राजनीति


guna, Kamal Nath, government locks, schemes, we opened ,Scindia

गुना। पूर्व केन्द्रीय एवं सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा है कि लोग राजनीति पद और सम्मान के लिए करते हैं, लेकिन उनका क्षेत्र के लोगों से पारिवारिक रिश्ता है और उनका पूरा जीवन क्षेत्र के विकास और खुशहाली के लिए है। यह बातें उन्होंने बमौरी विधानसभा के भाजपा प्रत्याशी महेन्द्र सिंह सिसौदिया के पक्ष में मंगलवार को बमौरी के टकनेरा में आमसभा को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि अपने 20 साल के राजनैतिक कार्यकाल में क्षेत्र की जनता को नेशनल हाईवे पर फोरलेन की सुविधा से लेकर बमौरी के गांव-गांव में सडक़ों का जाल बिछाया है। चाहे मोबाइल टॉवर की सुविधा हो या फिर बिजली के ट्रांसफार्मर किसी भी चीज में क्षेत्र की जनता के लिए कमी नहीं छोड़ी।    अब आ रहे हैं प्रवासी पक्षी   सिंधिया ने कहा कि जो लोग कांग्रेस की तरफ से वोट मांगने आ रहे हैं, वह प्रवासी पक्षी की तरह हैं जो जिन्होंने कभी भी बमौरी के विकास के बारे में नहीं सोचा। जो मुख्यमंत्री रहते कभी बमौरी नहीं आए अब वह बमौरी जनता का वोट मांगने आ रहे हैं। जनता उनको जबाव देगी। उन्होंने कमलनाथ पर हमला करते हुए कहा कि यहां के विधायक और मंत्री महेन्द्र सिंह सिसौदिया ने ग्वारखेड़ा बांध की मांग की तो कह दिया कि पैसा नही है। लेकिन वहीं बांध मैंने और शिवराज सिंह चौहान ने क्षेत्र की खुशहाली के लिए खोल दिए। उन्होंने कहा कि कमलनाथ ने शिवराज सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को लॉक कर दिया था। लेकिन उन्होंने और शिवराज ने जनता के हितों के लिए दिल की चाबी से खोल दिए। उन्होंने कहा कि बमौरी क्षेत्र मेें शुद्ध पेयजल के लिए 497 करोड़ की योजना मंजूर की गई है, जिसका पानी गोपीकृष्ण सागर बांध से गांव-गांव में जाएगा।    जनता का अपमान करने वालों को सबक सिखाएं   सिंधिया ने कहा कि कमलनाथ और दिग्विजय सिंह चुनाव के समय पर्दे के पीछे हो जाते हैं।  सत्ता आने  के बाद एक पर्दे के पीछे और एक सामने सरकार चलाते हैं। उन पर गरीबों के लिए पैसा नही होता, लेकिन खुद करोड़ों, अरबों रुपए कमाते हैं। जनता से वादाखिलाफी करने वालों को सिंधिया परिवार कभी नहीं छोड़ता। 50 साल पहले जनता का अपमान करने वाली सरकार को मेरी दादी ने गिराया था, और अब जनता से वादाखिलाफी करने वाले कमलनाथ सरकार को मैंने धूल चटाई हैं।    झलकियां   सभा के दौरान सिंधिया ने कमलनाथ और दिग्विजय सिंह की जमकर नकल उतारी जिस पर जनता ने खूब ताली ठोकीं। सभा में भाजपा जिलाध्यक्ष गजेन्द्र सिंह सिकरवार मंच पर नहीं पहुंचे तो सिंधिया ने जनता के बीच खड़े देखकर संबोधित किया। सिंधिया सभा के बाद जनता के बीच में गए और महिलाओं से बातचीत की। एक महिला ने बताया कि वह बीमार है और इलाज कराना चाहती है। इस पर सिंधिया ने उसे अपना मोबाइल नंबर दिया।    

Dakhal News

Dakhal News 20 October 2020


anuppur, Returning officer, served notice ,disputed statement ,ood Minister

अनूपपुर। प्रदेश के खाद्य मंत्री एवं भाजपा उम्मीदवार बिसाहूलाल सिंह के विवादित बयान को गंभीर से लेते हुए मंगलवार को रिटर्निंग अधिकारी ने उन्हें नोटिस जारी कर 24 घंटे में जवाब मांगा है।   दरअसल, सोमवार को भाजपा उम्मीदवार बिसाहूलाल सिंह ने कांग्रेस उम्मीदवार विश्वनाथ सिंह की पत्नी को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी, साथ ही  जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष को चुनाव समाप्त होने के बाद देख लेने की भी बात कही है। जिसे मीडिया ने प्रमुखता से प्रकाशित-प्रसारित किया था। मीडिया में बयान आने के बाद ही रिटर्निंग अधिकारी ने भाजपा उम्मीदवार को नोटिस जारी कर 24 घण्टे के अंदर जवाब मांगा गया है।

Dakhal News

Dakhal News 20 October 2020


indore, BJP

इंदौर। मप्र के पूर्व सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ प्रदेश की मंत्री इमरती देवी के लिए अभद्र टिप्पणी करने के बाद भाजपा के निशाने पर आ गए हैं। सोमवार को प्रदेश भर में भाजपा ने मौत व्रत रखकर कमलनाथ के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराया। वहीं मंगलवार को इंदौर में एक अलग ही नजारा देखने को मिला। यहां भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा ने अनूठा प्रदर्शन किया, जिसमें कमलनाथ आईटम सांग पर ठूमके लगाते हुए तो दिग्विजय सिंह उन्हें दाद देते हुए नजर आए।   दरअसल मंगलवार को भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा इंदौर द्वारा कलेक्टर चौराहा पर कमलनाथ के डमी रूप को आयटम गर्ल बनाकर आयटम सांग पर डांस करवाकर दिग्विजयसिंह द्वारा दाद दिलवाकर विरोध प्रदर्शन किया। भाजपा कार्यकर्ता मुन्नी बदनाम हुई और तेरी आख्या का यो काजल जैसे आयटम नम्बर गा रहे है, वही कांग्रेस के दो पूर्व सीएम के डमी अवतार उन गानों पर नाच रहे है। इस दौरान मोर्चा कार्यकर्ताओं ने जमकर कमलनाथ और उनकी भाषाशैली के खिलाफ जमकर नारे भी लगाए।    भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के नगर अध्यक्ष ने बताया कि इस तरह से विरोध करना भाजपा की पद्धति नही है, लेकिन कुत्ता काटे तो उसे काट नही सकते लेकिन डंडे से तो पीटा जा सकता है। वही राजेश शिरोडक़र ने कहा कि आपकी नजर में प्रदेश की मंत्री आयटम है तो फिर प्रियंका गांधी और सोनिया गांधी क्या है जरा ये भी बताए।    गौरतलब है कि कमलनाथ द्वारा डबरा में बिना नाम लिए इमारती देवी को आयटम कहने के मामले में विरोध प्रदर्शन का दौर लगातार जारी है। फिलहाल, प्रदेश में आयटम शब्द पर बवाल मचा हुआ है और भाजपा मुखर होकर पूर्व सीएम कमलनाथ के बयान का विरोध कर रही है।

Dakhal News

Dakhal News 20 October 2020


indore, BJP

इंदौर। मप्र के पूर्व सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ प्रदेश की मंत्री इमरती देवी के लिए अभद्र टिप्पणी करने के बाद भाजपा के निशाने पर आ गए हैं। सोमवार को प्रदेश भर में भाजपा ने मौत व्रत रखकर कमलनाथ के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराया। वहीं मंगलवार को इंदौर में एक अलग ही नजारा देखने को मिला। यहां भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा ने अनूठा प्रदर्शन किया, जिसमें कमलनाथ आईटम सांग पर ठूमके लगाते हुए तो दिग्विजय सिंह उन्हें दाद देते हुए नजर आए।   दरअसल मंगलवार को भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा इंदौर द्वारा कलेक्टर चौराहा पर कमलनाथ के डमी रूप को आयटम गर्ल बनाकर आयटम सांग पर डांस करवाकर दिग्विजयसिंह द्वारा दाद दिलवाकर विरोध प्रदर्शन किया। भाजपा कार्यकर्ता मुन्नी बदनाम हुई और तेरी आख्या का यो काजल जैसे आयटम नम्बर गा रहे है, वही कांग्रेस के दो पूर्व सीएम के डमी अवतार उन गानों पर नाच रहे है। इस दौरान मोर्चा कार्यकर्ताओं ने जमकर कमलनाथ और उनकी भाषाशैली के खिलाफ जमकर नारे भी लगाए।    भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के नगर अध्यक्ष ने बताया कि इस तरह से विरोध करना भाजपा की पद्धति नही है, लेकिन कुत्ता काटे तो उसे काट नही सकते लेकिन डंडे से तो पीटा जा सकता है। वही राजेश शिरोडक़र ने कहा कि आपकी नजर में प्रदेश की मंत्री आयटम है तो फिर प्रियंका गांधी और सोनिया गांधी क्या है जरा ये भी बताए।    गौरतलब है कि कमलनाथ द्वारा डबरा में बिना नाम लिए इमारती देवी को आयटम कहने के मामले में विरोध प्रदर्शन का दौर लगातार जारी है। फिलहाल, प्रदेश में आयटम शब्द पर बवाल मचा हुआ है और भाजपा मुखर होकर पूर्व सीएम कमलनाथ के बयान का विरोध कर रही है।

Dakhal News

Dakhal News 20 October 2020


ratlam, BJP staged, silence against, Kamal Nath, indecent remarks

रतलाम। भारतीय जनता पार्टी की जिला ईकाई ने अपने विधायकों तथा वरिष्ठ नेताओं की उपस्थिति में पूर्व मुख्यमंत्री   कमलनाथ द्वारा महिलाओं के प्रति की गई अभद्र टिप्पणी के खिलाफ सोमवार को अपना आक्रोश व्यक्त करने के लिए दो घंटे का सांकेतिक मौन धरना आयोजित किया।   उक्त जानकारी देते हुए भाजपा जिला मीडिया प्रभारी अरूण राव ने बताया कि गत दिवस कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेश सरकार की मंत्री इमरती देवी को लक्ष्य बनाकर महिलाओं के प्रति घोर आपत्तिजनक टिप्पणी सार्वजनिक मंच के माध्यम से करके प्रदेश की महिला मंत्री सहित आम महिलाओं का घोर अपमान किया है। प्रदेश भाजपा द्वारा कांग्रेस तथा कमलनाथ की इस घटिया मानसिकता के प्रति आक्रोश व्यक्त करने के लिए प्रदेश भर मे भाजपा द्वारा किये गये सांकेतिक मौन धरने के अंतर्गत  जिला भाजपा द्वारा भी नगर निगम के सामने स्थित गांधी उद्यान मे बापु की प्रतिमा के समीप दो घंटे का मौन धरना दिया गया। जिसका नेतृत्व जिलाध्यक्ष राजेन्द्रसिंह लुनेरा ने किया।     विधायक चेतन्य काश्यप,  विधायक डॉ.राजेन्द्र पांण्डे,  विधायक  दिलीप मकवाना, पूर्व विधायक श्रीमति संगीता चारेल, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य   बजरंग पुरोहित, जिला महामंत्री   प्रदीप उपाध्याय, जिला उपाध्यक्ष  बलवंत भाटी, जिला मंत्री   देवेन्द्र सिंह वाधवा,जिला मीडिया प्रभारी अरुण राव , जिला कार्यालय मंत्री  मनोज शर्मा, पूर्व महापौर   शेलेन्द्र डागा, पूर्व निगम अध्यक्ष  अशोक पोरवाल सहित पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 19 October 2020


Gwalior, Over 8 lakh 30 thousand, voters district ,elect three MLAs

ग्वालियर। मध्यप्रदेश में विधानसभा की रिक्त 28 सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं। इसके लिए आगामी तीन नवम्बर को मतदान होगा। इन 28 सीटों में ग्वालियर जिले की तीन सीटें शामिल हैं। इनमें विधानसभा क्षेत्र ग्वालियर, ग्वालियर पूर्व एवं डबरा (अजा) के 8 लाख 30 हजार से अधिक मतदाता अपने-अपने क्षेत्रों के विधायकों को चुनेंगे।   जिला निर्वाचन कार्यालय से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार, तीनों विधानसभा क्षेत्रों में कुल 8 लाख 30 हजार 459 मतदाता हैं, जो इस उपचुनाव में मतदान कर विधायक चुनने का अधिकार है। तीनों विधानसभा क्षेत्रों के कुल मतदाताओं में 4 लाख 44 हजार 128 पुरुष मतदाता एवं 3 लाख 86 हजार 297 महिला मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे। इसके अलावा तीनों विधानसभा क्षेत्रों में थर्ड जेण्डर मतदाताओं की कुल संख्या 34 है।    ग्वालियर पूर्व में सबसे अधिक तो डबरा में सबसे कम मतदाता    जिले के विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र-16 ग्वालियर पूर्व में सबसे अधिक अर्थात 3 लाख 13 हजार 210 मतदाता हैं। सबसे कम मतदाता जिले के विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र-19 डबरा अजा. में हैं। यहां के कुल मतदाताओं की संख्या 2 लाख 28 हजार 178 है।    पुरुष एवं महिला मतदाताओं का अनुपात    विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 15-ग्वालियर में पुरुष व महिला मतदाताओं का अनुपात 863.67 है। अर्थात एक हजार पुरुष मतदाताओं के पीछे लगभग 864 महिला मतदाता हैं। इसी प्रकार विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 16-ग्वालियर पूर्व में पुरुष व महिला मतदाताओं का अनुपात 864.39 है। इस प्रकार इस विधानसभा क्षेत्र में एक हजार पुरुष मतदाताओं के अनुपात में लगभग 864 महिला मतदाता हैं। विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 19-डबरा (अजा.) में पुलिस व महिला मतदाताओं का अनुपात 885.12 है। डबरा विधानसभा क्षेत्र में एक हजार पुरुष मतदाताओं के पीछे लगभग 885 महिलाएं हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 19 October 2020


Gwalior, Over 8 lakh 30 thousand, voters district ,elect three MLAs

ग्वालियर। मध्यप्रदेश में विधानसभा की रिक्त 28 सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं। इसके लिए आगामी तीन नवम्बर को मतदान होगा। इन 28 सीटों में ग्वालियर जिले की तीन सीटें शामिल हैं। इनमें विधानसभा क्षेत्र ग्वालियर, ग्वालियर पूर्व एवं डबरा (अजा) के 8 लाख 30 हजार से अधिक मतदाता अपने-अपने क्षेत्रों के विधायकों को चुनेंगे।   जिला निर्वाचन कार्यालय से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार, तीनों विधानसभा क्षेत्रों में कुल 8 लाख 30 हजार 459 मतदाता हैं, जो इस उपचुनाव में मतदान कर विधायक चुनने का अधिकार है। तीनों विधानसभा क्षेत्रों के कुल मतदाताओं में 4 लाख 44 हजार 128 पुरुष मतदाता एवं 3 लाख 86 हजार 297 महिला मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे। इसके अलावा तीनों विधानसभा क्षेत्रों में थर्ड जेण्डर मतदाताओं की कुल संख्या 34 है।    ग्वालियर पूर्व में सबसे अधिक तो डबरा में सबसे कम मतदाता    जिले के विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र-16 ग्वालियर पूर्व में सबसे अधिक अर्थात 3 लाख 13 हजार 210 मतदाता हैं। सबसे कम मतदाता जिले के विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र-19 डबरा अजा. में हैं। यहां के कुल मतदाताओं की संख्या 2 लाख 28 हजार 178 है।    पुरुष एवं महिला मतदाताओं का अनुपात    विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 15-ग्वालियर में पुरुष व महिला मतदाताओं का अनुपात 863.67 है। अर्थात एक हजार पुरुष मतदाताओं के पीछे लगभग 864 महिला मतदाता हैं। इसी प्रकार विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 16-ग्वालियर पूर्व में पुरुष व महिला मतदाताओं का अनुपात 864.39 है। इस प्रकार इस विधानसभा क्षेत्र में एक हजार पुरुष मतदाताओं के अनुपात में लगभग 864 महिला मतदाता हैं। विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 19-डबरा (अजा.) में पुलिस व महिला मतदाताओं का अनुपात 885.12 है। डबरा विधानसभा क्षेत्र में एक हजार पुरुष मतदाताओं के पीछे लगभग 885 महिलाएं हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 19 October 2020


shivpuri,BJP expressed, silence by protesting

शिवपुरी। शिवपुरी जिले में सोमवार को भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने मौन व्रत रखकर कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के द्वारा डबरा से कांग्रेस प्रत्याशी इमरती देवी पर की गई टिप्पणी को लेकर अपना विरोध जताया।    शिवपुरी जिला मुख्यालय पर भाजपा जिला अध्यक्ष राजू बाथम के नेतृत्व में भाजपा कार्यकर्ताओं ने यहां पर मौन व्रत रख कर एक महिला के प्रति की गई टिप्पणी को लेकर अपना रोष जताया। भाजपा जिलाध्यक्ष राजू बाथम ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की एक टिप्पणी घोर अपमानजनक है और महिलाओं का अपमान है। इस मौन व्रत के दौरान भाजपा के वरिष्ठ नेता और पोहरी से पूर्व विधायक नरेंद्र बिरथरे, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य राघवेंद्र गौतम सहित अन्य भाजपा नेतागण यहां पर मौजूद रहे।

Dakhal News

Dakhal News 19 October 2020


ashoknagar,BJP candidates , staring at defeat, misuse ,administration machinery

अशोकनगर। उपचुनाव नजदीक आते अपनी हार को देखते हुए भाजपा प्रत्याशी बौखलाते जा रहे हैं और अब प्रशासनिक तंत्र का दुरुपयोग कर आचार संहिता का उल्लंघन कर रहे हैं। तथा सरकारी कर्मचारी भाजपा प्रत्याशी से भयभीत रहकर उनके दबाव में मौन रहकर कार्य कर रहे हैं। इस तरह का आरोप निशंक जैन पूर्व विधायक गंज बासौदा के द्वारा रविवार को यहां पत्रकार वार्ता के दौरान लगाये।    कांग्रेस जिलाध्यक्ष हरिसिंह रघुवंशी एवं कांग्रेस से पूर्व विधायक निशंक जैन ने आरोप लगाते हुए कहा कि जिस प्रकार सरकार में मंत्री रहीं इमरती देवी दे बयान दिया था कि कलेक्टर से कहने पर हम हमारा विधायक बना लेंगे। उन्होंने कहा कि लगता है कि इमरतीदेवी के बयान का असर यहां दिखाई दे रहा है। आरोप लगाते हुए का गया कि अशोकनगर आरक्षित सीट से चुनाव लडऩे वाले भाजपा प्रत्याशी जजपाल सिंह चुनाव नजदीक आते बौखला रहे हैं, और वह प्रशासनिक तंत्र का दुरुपयोग कर रहे हैं। तथा कहा कि वहीं प्रशासनिक तंत्र भी सरकार के दबाव में आकर भाजपा प्रत्याशी द्वारा किया जा रहा निरंतर आचार संहिता का उल्लंघन को नजर अंदाज कर रहा है और रिटर्निंग अधिकारी द्वारा भी ढुलमुल रवैया अपनाया जा रहा है।    आरोप लगाते हुए कहा गया कि भाजपा प्रत्याशी के नामांकन फार्म में हमारे अभ्यर्थी द्वारा लगाई आपत्ति को बिना संतुष्ट पूर्ण जवाब दिए आपत्ति निरस्त कर दी गई। तथा आरोप लगाते हुए कहा गया कि भाजपा प्रत्याशी द्वारा विधानसभा के रोजगार सहायक इत्यादि की गुप्त बैठकें ली जा रहीं हैं। इसी प्रकार पंचायत एवं नगरपालिका के सभी कर्मचारी भाजपा प्रत्याशी के भारी दबाव में काम करने मजबूर हो रहे हैं।    आरोप लगाते हुए का गया है कि भाजपा प्रत्याशी की कार्यशैली जनता और प्रशासन को पता है। सभी कर्मचारी भयभीत हैं और जनता के लोग भी फर्जी केस लगने और पिटाई के डर से मौन है। आशंका व्यक्त कर कहा गया है कि सरकार में मंत्री रहीं इमरतीदेवी की बात कि कलेक्टर हमको चुनाव जितवायेंगे। यह बात यहां प्रत्यक्ष रूप से सिद्ध हो रही है।

Dakhal News

Dakhal News 18 October 2020


Nagda,accidental death ,daughter-in-law , Union Minister Gehlot

उज्जैन/नागदा। केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गेहलोत की पुत्रवधू एवं पूर्व भाजपा विधायक जितेंद्र गेहलोत की पत्नी चंद्रकला गेहलोत का शनिवार रात लगभग एक बजे लगभग 45 वर्ष की उम्र में अकस्मात निधन हो गया। ह्रदयाघात से निधन होना बताया जा रहा है।   इस खबर के बाद देर रात से ही मंत्री गेहलोत के निवास स्थान 56 ब्लॉक पर समर्थकों का जमावड़ा लग गया। रविवार सुबह 11 बजे शवयात्रा निकालने की तैयारियां की जा रही है। बता दें कि जितेंद्र गेहलोत उज्जैन संसदीय क्षेत्र के आलोट विधानसभा क्षेत्र से वर्ष 2013 से 2018 तक विधायक रहे थे। 

Dakhal News

Dakhal News 18 October 2020


Nagda,accidental death ,daughter-in-law , Union Minister Gehlot

उज्जैन/नागदा। केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गेहलोत की पुत्रवधू एवं पूर्व भाजपा विधायक जितेंद्र गेहलोत की पत्नी चंद्रकला गेहलोत का शनिवार रात लगभग एक बजे लगभग 45 वर्ष की उम्र में अकस्मात निधन हो गया। ह्रदयाघात से निधन होना बताया जा रहा है।   इस खबर के बाद देर रात से ही मंत्री गेहलोत के निवास स्थान 56 ब्लॉक पर समर्थकों का जमावड़ा लग गया। रविवार सुबह 11 बजे शवयात्रा निकालने की तैयारियां की जा रही है। बता दें कि जितेंद्र गेहलोत उज्जैन संसदीय क्षेत्र के आलोट विधानसभा क्षेत्र से वर्ष 2013 से 2018 तक विधायक रहे थे। 

Dakhal News

Dakhal News 18 October 2020


bhopal,Jeetu alleges, democracy killing party,made police goon

भोपाल। मुरैना जिले की दिमनी विधानसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी रविंद्र सिंह भिड़ोसा के भाई के साथ पुलिस द्वारा की गई बर्बरतापूर्ण पिटाई पर राजनीति तेज हो गई है। पूर्व मंत्री और कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी ने घटना की निंदा करते हुए, इसे लोकतंत्र की हत्या करने वालों की तानाशाही बताई है। पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि प्रदेश में लोकतंत्र की हत्या कर पीछे के रास्ते से सत्ता में आई भाजपा ने पुलिस वाले गुंडे पाल रखे है। जो आम आदमी को परेशान करने सच की आवाज उठाने वालों की आवाज दबाने का काम करते है।   जीतू पटवारी ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि पिछले 15 सालों में देश और विश्व की सबसे बड़ी पार्टी होने का दावा करने वाली भाजपा ने मध्य प्रदेश में माफिया और गुंडे पाले है। जो चुनाव आयोग में शिकायत करने पर पहले तो बर्बरतापूर्ण पिटाई और गुंडागिरी कर लोकतंत्र का गला घोटकर आवाज दबाने की कोशिश करते है। थाना प्रभारी के चार पहिया वाहन से मिले अवैध हथियारों से तो यही साबित होता है कि पिछले 15 सालों के भाजपा राज में पुलिस किस तरह रक्षक की जगह भक्षक बनकर गुंडाराज फैलाए हुए थी। जो पिछले 6 महीनों से एक बार फिर देखने को मिल रहा है।   उन्होंने निशाना साधते हुए कहा कि पुलिस और माफिया के गठजोड़ को कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने तोडक़र आम जन के लिए प्रदेश को एक बार फिर शांति का टापू बनाया था। जिसे पिछले 6 महीने में 15 साल से चले आ रहे माफिया और गुंडाराज में तब्दील कर दिया है। यही कारण है कि चुनाव के समय चुनाव आयोग में शिकायत करने पर पुलिस इस तरह की गुंडागर्दी कर बर्बरतापूर्वक चुनाव लड़ रहे प्रत्याशी के भाई के साथ मारपीट करती है।   जीतू पटवारी ने कहा कि प्रदेश में माफिया तो बेख़ौफ़ है। उज्जैन में जहरीली शराब का कारोबार करने वाले माफिया ने कई लोगों की जान ले ली, लेकिन कार्यवाही सिर्फ थाना प्रभारी के निलंबन तक ही सीमित है। पुलिस और माफिया का गठजोड़ जिसे कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने खत्म करने का काम किया था वह फिर से पनपने लगा है। यही कारण है कि मुरैना जिले की दिमनी विधानसभा में उप चुनाव के दौरान प्रत्याशी के भाई के साथ पुलिस बर्बरतापूर्ण मारपीट करती है तो दूसरी ओर उज्जैन में जहरीली शराब पीने से लोगों की मौत हो रही है।    उन्होंने सवाल पूछते हुए कहा कि यह पुलिस का माफिया के साथ गठजोड़ नहीं तो क्या है। क्या पुलिस थाना क्षेत्र में चल रही अवैध गतिविधियों पर नजऱ नहीं रख पा रही या सत्ता संरक्षण के चलते अक्षम हो गई है। अगर प्रदेश के गृह मंत्री से पुलिस महकमा नहीं सम्हल रहा तो उन्हें तत्काल अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। "देश भक्ति जन सेवा" के मूल मंत्र को भूलकर पुलिस विभाग माफिया के संरक्षण और भाजपा की चाकरी में लगा है। यह लोकतंत्र की हत्या कर तानाशाही के तरफ बढऩे जैसा है। जिसकी कांग्रेस पार्टी पुरजोर निंदा करती है।

Dakhal News

Dakhal News 16 October 2020


ashoknagar, Congress told, Vijayvargiya

अशोकनगर। जिले में होने जा रहे दो उपचुनावों के बीच नेताओं के एक दूसरे के विरोध में तीखे बयान थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। प्रदेश की 28 सीटों पर हो रहे उपचुनावों में बिकाऊ और गद्दारों से शुरू हुए बयान रूपी व्यंग बाणों के बाद नंगे-भूखे के बाद यहां भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय द्वारा कमलनाथ और दिग्विजय सिंह को चुन्नु-मुन्नु कहे जाने के साथ कमलनाथ और दिग्विजय सिंह की दोनों की सम्पत्ति मिलाकर ज्योतिरादित्य सिंधिया का एक महल बताये जाने पर शुक्रवार को प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता एवं अशोकनगर के मीडिया समन्वयक शहरयार खान ने कैलाश विजयवर्गीय के बयान को वीरांगना लक्ष्मीबाई का अपमान बताया है।    कांग्रेस प्रवक्ता का कहना है कि भाजपा एवं कैलाश विजयवर्गीय को यह तय करना होगा कि वह वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई के साथ हैं यह महल की सम्पत्ति के पैरोकार हैं। उन्होंने कहा कि आप कमाई एवं बाप कमाई में फर्क होता है, महल की दिवारें वीरांगना की शहादत पर टिकी हैं, ऐसे बयान देशभक्तों का अपमान है। 

Dakhal News

Dakhal News 16 October 2020


guna, Kamal Nath,contractor in Congress, all others are Beldar,Jha

गुना। वरिष्ठ भाजपा नेता प्रभात झा ने गुरुवार को अपने गुना दौरे के दौरान पत्रकारों से बातचीत में कहा कि कांग्रेस में संगठन नाम की चीज खत्म हो गई है। वहां पर एक मात्र व्यक्ति कमलनाथ हैं। हालत यह है कि कांग्रेस में कमलनाथ ठेकेदार हैं, बाकी सारे बेलदार हैं।     उन्होंने कहा कि इसलिए कांग्रेस की तरफ कमलनाथ के अलावा प्रदेशभर से कोई नेता आमसभा अथवा रैली नहीं कर रहा है, केवल कमलनाथ की ही सभा हो रही है। झा ने एक प्रश्र के उत्तर में चुटकी लेते हुए कहा कि अच्छा है दिल्ली में राहुल गांधी बने रहे और प्रदेश में कमलनाथ  बने रहे तो हमेंं कुछ करने की जरुरत ही नहीं पड़ेंगी। सब अपने आप होता चला जाएगा।    कांग्रेस हुई नौ दो ग्यारह   उन्होंने कहा कि कांग्रेस खत्म हो चुकी है। यहां पर जो कांग्रेस थी, वह ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस थी। अब सिंधिया भाजपा में आ गए हैं, तो भाजपा एक और एक 11 हुए और कांग्रेस नौ दो ग्यारह हो गई। झा ने कहा कि प्रदेश को केवल कमलनाथ ही चला रहे हैं। पोस्टरों से राहुल गांधी और दिग्विजय सिंह गायब हो गए हैं। प्रदेश कांगे्रस को कमलनाथ की कंपनी चला रही है।    गरीब और भूखों की सेवा करना क्या गुनाह है   प्रभात झा ने कहा कि शिवराज सिंह प्रदेश में गरीब, कमजोर लोगों की सेवा कर रहे हैं, तो कांग्रेस के पेट में दर्द हो रहा है, और वह निम्न भाषा पर उतर आई है। कांग्रेस के नेता प्रदेश के सीएम को भूखा, नंगा बोलते हैं। जबकि कमलनाथ को उद्योगपति बताते हैं। उन्होंने कहा कि गरीब, कमजोर की सेवा करना गुनाह है तो यह शिवराज जी और भाजपा करती रहेगी।

Dakhal News

Dakhal News 15 October 2020


bhopal, Kamal Nath, demands justice, asks government,mafias so much

भोपाल। उज्जैन में कच्ची शराब पीने से नौ लोगों की मौत के मामले में मप्र के पूर्व सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंंने ट्वीट कर पीडि़त परिवार को उचित न्याय दिलाने की मांग करते हुए सरकार पर सवाल साधा है। उन्होंने सीएम शिवराज से पूछा है कि आखिर सरकार को माफियाओं से इतना प्रेम क्यों है।   कमलनाथा ने अपने ट्वीट मेें लिखा ‘उज्जैन में शराब माफिया ने 9 जानें लीन ली, 9 परिवार बर्बाद कर दिये। शिवराज जी, ये माफिया कब तक यूँ ही निर्दोषों की जान लेते रहेंगे? हमने इन्हें कुचला था, हमारी सरकार  जाते ही ये फिर बेखौफ हो गये, फिर सक्रिय हो गये? आपकी सरकार का माफिय़ाओं से आखिर इतना प्रेम क्यों? क्यों इन्हें बख्शा जा रहा है ? क्यों इन्हें संरक्षण दिया जा रहा है ? उन्होंने कहा कि मृतकों के प्रति मेरी शोक संवेदनाएँ। पीडि़त परिवारों को न्याय मिले, उनकी हर संभव मदद हो, दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही हो। बताते चले कि कमलनाथ ने पूरे मामले की जांच के लिए एक टीम भी गठित की है, जो मौके पर जाकर जांच करेगी और कमलनाथ को रिपोर्ट सौंपेगी।

Dakhal News

Dakhal News 15 October 2020


bhopal, Kamal Nath, demands justice, asks government,mafias so much

भोपाल। उज्जैन में कच्ची शराब पीने से नौ लोगों की मौत के मामले में मप्र के पूर्व सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंंने ट्वीट कर पीडि़त परिवार को उचित न्याय दिलाने की मांग करते हुए सरकार पर सवाल साधा है। उन्होंने सीएम शिवराज से पूछा है कि आखिर सरकार को माफियाओं से इतना प्रेम क्यों है।   कमलनाथा ने अपने ट्वीट मेें लिखा ‘उज्जैन में शराब माफिया ने 9 जानें लीन ली, 9 परिवार बर्बाद कर दिये। शिवराज जी, ये माफिया कब तक यूँ ही निर्दोषों की जान लेते रहेंगे? हमने इन्हें कुचला था, हमारी सरकार  जाते ही ये फिर बेखौफ हो गये, फिर सक्रिय हो गये? आपकी सरकार का माफिय़ाओं से आखिर इतना प्रेम क्यों? क्यों इन्हें बख्शा जा रहा है ? क्यों इन्हें संरक्षण दिया जा रहा है ? उन्होंने कहा कि मृतकों के प्रति मेरी शोक संवेदनाएँ। पीडि़त परिवारों को न्याय मिले, उनकी हर संभव मदद हो, दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही हो। बताते चले कि कमलनाथ ने पूरे मामले की जांच के लिए एक टीम भी गठित की है, जो मौके पर जाकर जांच करेगी और कमलनाथ को रिपोर्ट सौंपेगी।

Dakhal News

Dakhal News 15 October 2020


bhopal, Congress charges, law and order, Madhya Pradesh , chaotic

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने प्रदेश की कानून व्यवस्था की स्थिति पर हैरानी जाहिर करते हुए मुख्यमंत्री से  सवाल किया है। उन्होंने कहा है कि जिन जिलों में उपचुनाव हैं वहां विगत 90 दिनों में पुलिस के खिलाफ सात हजार शिकायतें दर्ज होने के समाचार हैं। जहरीली शराब पीने से 7 आदमियों की मौत हो गई है। भ्रष्टाचार में पकड़े जा रहे बाबू चपरासियों के यहां करोड़ों रुपए मिल रहे हैं। बच्चियों की अस्मत लूटी जा रही है। हत्याएं हो रही हैं। गरीबों की एफ आई आर नहीं लिखी जा रही हैं। आखिर प्रदेश की इस अराजक स्थिति के लिए जिम्मेदार कौन है? इसे कौन संभालेगा?   भूपेन्द्र गुप्ता ने गुरुवार को एक बयान जारी कर सीएम शिवराज पर निशाना साधते हुए कहा कि आप अपने आप को गरीब सिद्ध करने में लगे हुए हैं। आप की गरीबी सिद्ध करने का विषय नहीं है, सुशासन आपके सिद्ध करने का विषय है। इस अराजकता से प्रदेश को निजात दिलाईये। प्रदेश को शांति चाहिए, उसको  व्यवस्था चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश जानना चाहता है कि क्या अब इस काम के लिये किसी गृह मंत्री को भी इंपोर्ट करना पड़ेगा? मध्यप्रदेश चाहता है कि इस दुर्भाग्य की परिस्थिति से प्रदेश को बाहर निकालिये और अपने दायित्व का निर्वाह करिए, बाद में गरीबी सिद्ध कर लीजिएगा।

Dakhal News

Dakhal News 15 October 2020


bhopal,Ajay Singh, Adal Singh Kansana, roared in Sumavali, Chambal

भोपाल। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजयसिंह आज कमलनाथ के साथ मुरैना जिले के सुमावली में कांग्रेस प्रत्याशी अजब सिंह कुशवाहा के समर्थन में आयोजित चुनावी सभा में पँहुचे। उन्होंने कहा कि यहाँ की जनता ने अपने कीमती वोटों से कांग्रेस की सरकार बनायी थी। उस दौर में कांग्रेस को सत्ता सौंपी थी जब पूरा प्रदेश मामा के झूठे वादों से थक चुका था। पूरा प्रदेश जान गया था कि मामा का असली चेहरा क्या है? लेकिन हुआ क्या? जिसे आपने चुना था, उस एदल सिंह कंसाना ने चंबल की रेत, अवैध शराब और टोल प्लाजा बेचते बेचते आपका वोट भी बेच दिया। वे कांग्रेस को बेचकर अब भाजपा के उम्मीदवार बन गए हैं। जब जनता की बनाई सरकार छल कपट से चली गई तो अब आपका ये फर्ज बनता है कि दोबारा कमलनाथ और कांग्रेस की सरकार बनायें।   अजय सिंह ने कहा कि पहले सिंधिया कहते थे कि टाइगर अभी जिंदा है। अब उन्होंने कहा कि मैं काला कौआ हूँ। कौए के बारे में आप सभी जानते हैं। सिंधिया को टाइगर से कौआ बने अभी कुछ ही दिन हुये हैं। अब चुनाव के बाद क्या बनेंगे, यह समय ही बताएगा। सिंधिया ने जो गद्दारी की है उसमें उनका दोष नहीं है। उन्होंने वही किया जो उनके राजपरिवार में पहले से होते आया है। परिवार की पृष्ठभूमि देर सबेर उजागर हो ही जाती है।   अजय सिंह ने कहा कि जब मैं पंचायत विभाग का मंत्री था तो एदल सिंह कंसाना मेरे राज्य मंत्री हुआ करते थे। विधानसभा प्रश्नकाल के समय वे हमेशा गोल हो जाया करते थे। जब मैं उनसे कहता कि अपने विभाग का प्रश्नकाल है, अधिकारियों के साथ ब्रीफिंग में आ जाना। तो कहते थे कि हाँ भैया, आ जाऊंगा। लेकिन ठीक एक दिन पहले उनका फोन आ जाता था कि मैं प्रश्नकाल में उपस्थित नहीं हो सकूँगा क्योंकि मेरा रेत का ट्रक पकड़ गया है। चंबल में कोई माफिया गिरोह है तो वह एदल सिंह कंसाना का है। आज एदल सिंह ने आपका वोट बेचा है, अब आपका समय आया है। आपको बता देना है कि हमें नहीं चाहिए रेत का कोई माफिया, हमें नहीं चाहिए ऐसा विधायक जो टोल प्लाजा में चोरी करवाता हो, गाँव गाँव में अवैध दारू बेचता हो। हमें तो अजब सिंह कुशवाहा जैसा सीधा सादा किसान चाहिए, जो जनता की सेवा करे।   अजयसिंह ने कहा कि मेरे पिताजी स्व अर्जुनसिंह तीन बार प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। वे सन 77 से कमलनाथ के सहयोगी रहे, उनके ही कार्यकाल के दौरान इस अंचल में मलखान सिंह और फूलनदेवी ने आत्मसमर्पण किया। आत्मसमर्पण के बाद वापस लौटते हुये उन्होंने मुझसे कहा था कि मुरैना में एक खासियत है। यदि यहाँ का कोई व्यक्ति आत्म सम्मान की खातिर गोली चलाये तो परिवार उसका बचाव करता है, और यदि वह गद्दारी करता है या किसी महिला से छेड़छाड़ करता है तो उसका परिवार उसे पुलिस को सौंप देता है। आज आपके साथ गद्दारी हुई है, आपके वोट को बेचा है एदल सिंह ने, आपके वोट पर पुलिस और सरकार के बल पर खुले आम कब्जा करने की बात करता है। जनता जनार्दन आप हो, किसी दूसरे का अधिकार नहीं है आपके वोट पर। यदि आपकी बनाई सरकार छलकपट से गिरा दी गई है तो आपका फर्ज बनता है दोबारा कमलनाथ और कांग्रेस सरकार बनाने का। मुझे यहाँ की जनता पर पूरा भरोसा है कि वह सच का साथ देगी।

Dakhal News

Dakhal News 14 October 2020


bhopal,Poor God ,like Shivraj ,made everyone,Sajjan Singh Verma

भोपाल। भूखे-नंगे और गरीब शब्दों को लेकर प्रदेश की राजनीति में जमकर वार और पलटवार चल रहे हैं। प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सज्जन सिंह वर्मा ने भाजपा के मैं भी गरीब, मैं भी शिवराज अभियान को लेकर पलटवार किया है। उन्होंने कहा है कि शिवराज सिंह चौहान झूठ का आडम्बर रचते हैं, अपने शब्द जाल में प्रदेश की भोली भाली जनता को ठगने का प्रयास करते रहते हैं। उन्होंने कहा कि मैं भी गरीब, मैं भी शिवराज बोलकर भाजपाई क्यों शिवराज बन रहे हैं, शिवराज के चेहरे को तो प्रदेश की जनता 2018 में ही नकार चुकी है।    सज्जन सिंह वर्मा ने बुधवार को मीडिया से बातचीत में कहा कि इस गरीब शिवराज की कहानी भी प्रदेश की जनता सुन ले। जिस व्यक्ति के घर पर दो-दो नोट गिनने की मशीन हो जिसके बेटे का 1000 एकड़ का फार्म हाउस हो, जिसके बच्चे विदेशों में पढ़ रहे हों, जिसका मुंबई के उद्योगपति के साथ बड़ा डेयरी फार्म हो, बोलने में तो उसे बड़ा अच्छा लग रहा है कि मैं भी गरीब। उन्होंने कहा कि 15 साल जो प्रदेश में भ्रष्टाचार किया, होशंगाबाद और सीहोर की नदियों की रेत खा गए और फिर भी कह रहे हैं कि मैं गरीब हूं। भगवान ऐसा गरीब सबको बना दे, प्रदेश स्वर्ग बन जायेगा।    वर्मा ने कहा कि शिवराज सिंह, साधना सिंह, नरोत्तम मिश्रा और नरेन्द्र तोमर प्रदेश की जनता को यह बताएं कि वह जब पहली बार चुनाव लड़े थे तब और आज में क्या अंतर है। पहले उनकी संपत्ति कितनी थी और आज क्या है ? उन्होंने कहा कि मंत्री या मुख्यमंत्री बनने से दौलत नहीं आती है, शिवराज अपनी काली कमाई का हिसाब जनता को दें। प्रदेश की जनता यह जानना चाहती है कि भाजपा के कितने नेता गरीब हैं।

Dakhal News

Dakhal News 14 October 2020


bhopal,.Explain industrialist ,Kamal Nath, money of poor, tribal women

भोपाल। गरीब सहरिया, बैगा, भारिया आदिवासी महिलाओं के जिस कष्ट ने गरीब किसान के बेटे शिवराजसिंह चौहान को व्यथित कर दिया था, वो कष्ट उद्योगपति कमलनाथ को क्यों दिखाई नहीं दिया? क्या उद्योगपति कमलनाथ यह नहीं चाहते थे कि इन आदिवासी महिलाओं में व्याप्त कुपोषण की समस्या दूर हो? अगर ऐसा नहीं है, तो कमलनाथ को प्रदेश की जनता और आदिवासी समुदाय को इस बात का जवाब देना चाहिए कि उन्होंने सहरिया, बैगा, भारिया महिलाओं को पोषण भत्ते के रूप में दी जाने वाली 1000 रुपये की राशि क्यों रोक ली थी? यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने बुधवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ से सवाल करते हुए कही।प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि भाजपा सरकार के संवेदनशील मुख्यमंत्री जिन्हें कांग्रेस के लोग ‘भूखे-नंगे’ कहते हैं, उन्होंने सहरिया, बैगा, भारिया जनजातियों की महिलाओं को पोषण भत्ते के रूप में प्रतिमाह 1000 रुपये देना शुरू किया था। लेकिन देश के नं.2 उद्योगपति कमलनाथ जी ने मुख्यमंत्री बनते ही इन महिलाओं को मिलने वाला भत्ता बंद कर दिया। शर्मा ने कहा कि कांग्रेस के लोग ‘भूखे-नंगे’ कहकर गरीबों का सिर्फ अपमान ही नहीं कर रहे हैं, बल्कि ये तो उनकी जिंदगी से भी खेलते रहे हैं। शर्मा ने पूछा कि क्या कमलनाथ और कांग्रेस के लोग यह नहीं चाहते थे कि इन जनजातीय समुदायों में मातृ एवं शिशु मृत्युदर में कमी आए? क्या वे नहीं चाहते थे कि इन समुदायों की महिलाएं और बच्चे स्वस्थ रहें और अपने परिवार तथा समाज को रोगमुक्त बनाने में योगदान दें? शर्मा ने कहा कि ऐसे उद्योगपति से तो ‘भूखे-नंगे’ होना ही अच्छा है, क्योंकि हमारे मुख्यमंत्री ने न सिर्फ इन समुदायों की दो लाख महिलाओं को भत्ता देना शुरू किया, बल्कि उस समय का बाकी पैसा भी दे रहे हैं, जब प्रदेश में एक उद्योगपति की सरकार थी।

Dakhal News

Dakhal News 14 October 2020


bhopal,Services , Home Guard soldiers, commendable emergency, Minister Dr. Mishra

भोपाल। काम कोई भी हो, छोटा या बड़ा नहीं होता, काम में डूब जाना बड़ी बात है। होमगार्ड के जवान आपात स्थिति में भी बेहतर परिणाम देते आये हैं, जो सराहनीय है। यह बात गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने मंगलवार को अन्तर्राष्ट्रीय आपदा जोखिम न्यूनीकरण दिवस पर होमगार्ड मुख्यालय परिसर में आयोजित सैनिक सम्मेलन में कही। उन्होंने कहा कि होमगार्ड की महिला सैनिकों को भी 90 दिवस के सवैतनिक प्रसूति अवकाश का लाभ दिया जाएगा।    मंत्री डॉ. मिश्रा ने होमगार्ड लाइन में होमगार्ड एवं एसडीईआरएफ के जवानों के आपदा बचाव संबंधी क्षमता प्रदर्शन का भी अवलोकन किया। उन्होंने मुख्यालय परिसर में सिविल डिफेंस वालेंटियर्स के सम्मेलन को भी संबोधित किया। कार्यक्रम में पुलिस महानिदेशक विवेक जौहरी, एसीएस (गृह) डॉ. राजेश राजौरा, महानिदेशक होमगार्ड अशोक दोहारे, एडीजी अशोक अवस्थी, एडीजी होमगार्ड अखितो सेमा व अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।   गृह मंत्री डॉ. मिश्रा ने होमगार्ड के जवानों को संबोधित करते हुए कहा कि सैनिक से सिपाही की चयन प्रक्रिया का सरलीकरण किया जाएगा। चयन में सीनियोरिटी कम मेरिट प्रक्रिया अपनाई जायेगी। सैनिकों के लिये गठित वेलफेर फंड की प्रतिवर्ष एक करोड़ 50 लाख रूपये मिलने वाली राशि को बढ़ाया जाएगा। उन्होंने कहा कि सैनिकों को मिलने वाली अनुगृह राशि जो 40 वर्ष से पहले सेवानिवृत्ति पर नहीं मिलती है, इसे दिलाने के लिये प्रक्रिया पर पुनर्विचार किया जाएगा। सेवाओं में यदि बीच में ब्रेक होता है तो बड़े कालखंड पर 15 दिवस प्रतिवर्ष के मान से अनुगृह राशि प्रदान किये जाने पर भी विचार किया जाएगा। मंत्री डॉ. मिश्रा ने कहा कि होमगार्ड और एसडीईआरएफ के जवान भी पुलिस विभाग के ही महत्वपूर्ण अंग हैं। जवानों के द्वारा संकटकाल में सेवाएँ देकर बेहतर कार्य किये जाने के उदाहरण मौजूद हैं। जवानों के हित में सरकार महत्वपूर्ण निर्णय ले रही है, उन्हें किसी भी प्रकार की दिक्कतें नहीं आने दी जाएंगी।   मंत्री डॉ. मिश्रा ने आपदा बचाव संबंधी क्षमता प्रदर्शन को सराहा होमगार्ड लाइन में आपदा के समय आगजनी, भूकम्प, बाढ़ इत्यादि के समय लोगों की जान-माल की सुरक्षा संबंधी होमगार्ड और एसडीईआरएफ के जवानों द्वारा किये गये क्षमता प्रदर्शन को गृह मंत्री डॉ. मिश्रा ने सराहा। उन्होंने जवानों का अभिनंदन करते हुए कहा कि आज जवनों ने वर्चुअल आग नहीं एक्च्युअल आग से लोगों की जिंदगी बचाने का अद्भुत प्रदर्शन किया है। भूकम्प में क्षतिग्रस्त इमारतों से लोगों की जिन्दगी को बचाने का भी उत्कृष्ट प्रदर्शन किया गया।   बिना कुछ लिये सेवाएँ देना बहुत बड़ा त्याग है गृह मंत्री डॉ. मिश्रा ने सिविल डिफेंस वॉलेंटियर्स के राज्य स्तरीय समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि विभिन्न आपदाओं के समय विपरित परिस्थितियों में अपनी इच्छाओं का त्याग कर बगैर कुछ लिये सेवाएँ देना बहुत बड़ा त्याग है। उन्होंने कोरोना संक्रमण काल में वॉलेंटियर्स द्वारा दी गई सेवाओं की भी सराहना की। मंत्री डॉ. मिश्रा ने संकट काल के अतिरिक्त भी वॉलेंटियर्स को खाली समय में जनहित के कार्यों में आगे बढ़कर सहभागिता करने का आव्हान किया।

Dakhal News

Dakhal News 13 October 2020


bhopal,Chief Minister, interacted directly , principals of various schools

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को भोपाल के मिन्टो हॉल में 497 करोड़ 70 लाख रूपये की लागत से नवनिर्मित 145 शैक्षणिक भवनों का वर्चुअल लोकार्पण किया। इस अवसर पर मुख्‍यमंत्री ने विभिन्‍न स्‍कूलों के प्राचार्यों, अभिभावकों से सीधा संवाद भी किया।    मुख्यमंत्री ने उमरिया जिले के कन्या शिक्षा परिसर प्रांगण में उपस्थित अभिभावक पुरूषोत्तम से नवनिर्मित भवन में उपलब्ध सुविधाओं के बारे चर्चा की। उन्‍होंने कोविड काल में शिक्षा संचालन के संबंध में प्राचार्य से जानकारी ली। प्राचार्य ने बताया कि कोरोना संक्रमण काल में 33 प्रतिशत बच्चों को ऑनलाइन शिक्षा प्रदान की जा रही है। इसके अलावा सभी बच्चों को उनके घरों में पुस्तकें उपलब्ध करवाई गई हैं। शिक्षक भी स्टूडेंट के निरंतर सम्पर्क में बने हुए हैं। मुख्यमंत्री ने स्कूल खोले जाने के संबंध में बताया कि परिस्थितियों को देखते हुए दीपावली के बाद स्कूल प्रारंभ किये जायेंगे।   सुरक्षा ने कहा पटवारी बनूंगी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शाजापुर जिले की मेधावी छात्रा कुमारी सुरक्षा पाटीदार से भी चर्चा की। उन्होंने मेधावी छात्रा के रूप में शासन द्वारा लैपटॉप के लिये उपलब्ध कराई गई राशि के संबंध में जानकारी ली। छात्रा सुरक्षा पाटीदार ने मुख्यमंत्री चौहान से कहा कि शासन द्वारा जो मदद की गई है, उसे वे अपनी आगे की पढ़ाई में उपयोग करेंगी। मुख्यमंत्री चौहान ने पूछा कि आगे क्या बनना चाहती हो, छात्रा सुरक्षा ने बड़ सहज रूप से कहा कि मेरी इच्छा पटवारी बनने की है।   पंचायत प्रधान ने कहा करेंगे समय-समय पर रख-रखाव मुख्यमंत्री ने शाजापुर जिले के शुजालपुर करवाला शाला भवन में उपस्थित पंचायत प्रधान नंदकिशोर पाटीदार से पूछा कि शाला भवन के बन जाने के बाद अब उसके रख-रखाव के लिए आपकी क्या कार्य योजना है। पाटीदार ने बताया कि स्कूल भवन में 195 बच्चों के लिए पर्याप्त स्थान है। जनप्रतिनिधि के रूप में हम स्वयं समय-समय पर रख-रखाव पर निगाह रखेंगे। प्राचार्य धर्मेन्द्र यादव ने बताया कि स्कूल 2002 में हाई स्कूल था। वर्ष 2013 में हायर सेकेण्ड्री स्कूल के रूप में परिवर्तित किया गया। पर्याप्त कक्ष हैं एवं स्टॉफ रूम, टॉयलेट आदि व्यवस्थित रूप से बनाये गये हैं। अकबरपुर भोपाल के शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल में जनप्रतिनिधि के रूप में उपस्थित प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने स्कूल में बच्चों को संख्या को देखते हुए स्कूल भवन में एक मंजिल और बनाए जाने का अनुरोध किया।   मुख्यमंत्री चौहान ने मंगलवार को जिन शैक्षणिक भवनों का लोकार्पण किया, उनमें आदिम-जाति कल्याण विभाग के 357 करोड़ 9 लाख रुपये लागत के 13 विशिष्ट आवासीय विद्यालयों (कन्या शिक्षा परिसर), 4 करोड़ 63 लाख रुपये के 3 छात्रावास के नवीन भवनों और स्कूल शिक्षा विभाग के 135 करोड़ 98 लाख रुपये लागत के 129 हाई स्कूल एवं हायर सेकेण्डरी शाला भवन शामिल है। इन भवनों का निर्माण आदिमजाति कल्याण विभाग एवं स्कूल शिक्षा विभाग के लिए लोकनिर्माण विभाग द्वारा किया गया। लोकार्पण कार्यक्रम में लोकार्पित हुई सभी शैक्षणिक अधोसंरचनाएं चुनाव अप्रभावित जिलों की हैं।    आदिम-जाति कल्याण विभाग के लोकार्पित होने वाले 13 कन्या शिक्षा परिसरों में जन-जातीय वर्ग के 6 हजार 370 बालिकाओं और 3 छात्रावास भवनों में 150 छात्रों को बेहतर आवासीय सुविधा उपलब्ध हो सकेगी। स्कूल शिक्षा विभाग के नव-निर्मित 129 हाई एवं हायर सेकेण्डरी स्कूल 26 जिलों के अलग-अलग स्थानों पर निर्मित हैं। इन शाला भवनों के निर्माण से करीब 21 हजार विद्यार्थी लाभान्वित होंगे।

Dakhal News

Dakhal News 13 October 2020


bhopal, Ajay Singh ,reached Bamori, targeted the BJP

भोपाल। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजयसिंह मंगलवार को कमलनाथ के साथ बमोरी पंहुचे। यहां उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के पाला बदलने के बाद से ग्वालियर चम्बल संभाग का एक- एक कांग्रेस कार्यकर्ता आज अपने आप को वास्तव में स्वतंत्र महसूस कर रहा है। वह अब एकाधिकारवाद से आजाद है। आजाद नहीं हैं तो केवल महेंद्र सिंह सिसोदिया, जो अभी भी कहते फिर रहे हैं कि मैं तो सिंधिया के जूते उठाने लायक हूँ। मैं पूछना चाहता हूँ कि वे जनता की सेवा करने के लिए विधायक बने थे या सिंधिया के जूते उठाने के लिए। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि शर्म आना चाहिए ऐसी गुलामी पर। उनके दादा सागर सिंह सिसोदिया जिन्होंने स्वतन्त्रता के लिए अंग्रेजों से लड़ाई लड़ी। वे एक सच्चे कांग्रेसी थे। आज उनकी आत्मा दुखी हो रही होगी कि पोता कहाँ भटक गया है।   अजयसिंह ने कांग्रेस प्रत्याशी के.एल. अग्रवाल के पक्ष में भीड़ भरी चुनावी सभा में कहा कि एक सुरेश धाकड़ हैं जो कहते हैं कि मैं सिंधिया की वजह से भाजपा में बिका। वे जरुर अपना ईमान खोकर बिक गए लेकिन बमोरी की खुद्दार जनता नहीं बिकी है। वह तीन तारीख को यह बात सिद्ध कर देगी कि जब कांग्रेस के कन्हैयालाल अग्रवाल जीत का परचम लहरायेंगे। गुना बमोरी का कोई व्यापारी बाकी नहीं हैं जिससे सिसोदिया के जमाने में उगाही न की गई हो। सिसोदिया को तो बमोरी आने की फुरसत नहीं थी। वे भोपाल में कहाँ गुलछर्रे उड़ा रहे थे यह मैं चुनाव के बाद उजागर करूँगा। इसी तरह महाराज के एक और गुलाम सुरखी में हैं गोविन्द सिंह राजपूत, जो छोटे महाराज बन बैठे हैं और अपनी गुंडागर्दी से अपने ही कांग्रेस साथियों को पनपने नहीं देते।   अजयसिंह ने कहा कि मैं भी छ: बार का विधायक हूँ। सत्तर के दशक में मैं यहाँ के जंगल घूमने आया था। सिंधिया की चौधराहट के कारण कांग्रेस का कोई भी बड़ा नेता ग्वालियर चम्बल संभाग में उनकी इच्छा के बिना यहाँ नहीं आता था। मेरे पिता तीन बार मुख्यमंत्री रहे, उनके साथ 1984 में मैं तब इस क्षेत्र में आया था जब इंदिरा गांधी ने खाद कारखाने का उद्घाटन किया था। उसके बाद आज 36 साल बाद बमोरी आया हूँ जबकि मेरे ममिया ससुर (दिग्विजय सिंह) यहीं के हैं। उन्होंने विनोदी भाव से जयवर्धनसिंह की और मुखातिब होते हुए कहा कि मैं साले साहब से आग्रह करता हूँ कि कभी कभी मुझे भी यहाँ बुला लिया करें।

Dakhal News

Dakhal News 13 October 2020


bhopal,We are proud,our Prime Minister, Chief Minister, poor families,Vishnudutt Sharma

भोपाल, 12 अक्टूबर (हि.स.)। हमें गर्व है कि हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गरीब मां के बेटे हैं और हमारे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान गरीब किसान के बेटे हैं। ये गरीब परिवारों से हैं, इसलिए गरीब का दर्द जानते हैं, और गरीबों के मसीहा बनकर उनके कल्याण का काम कर रहे हैं। कांग्रेस के नेताओं की तरह उनका खून नहीं चूसते। यह बात सोमवार को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने मीडिया से बातचीत में कांग्रेस नेता दिनेश गुर्जर की मुख्यमंत्री चौहान के बारे में की गई टिप्पणी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कही।उद्योगपति मुख्यमंत्री ने गरीबों का हक छीना प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री चौहान गरीब परिवार और किसान के बेटे होने के कारण ही मुख्यमंत्री बने। गरीब किसान के बेटे हमारे मुख्यमंत्री जी ने गरीबों को मकान देने, प्रतिभावान छात्रों की फीस भरने जैसे काम किए, जबकि उद्योगपति मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने शासन के दौरान जनहितैषी योजनाएं बंद करके गरीबों का हक छीन लिया था। उन्होंने कहा कि यही कांग्रेस की मानसिकता है। शर्मा ने कहा कि उद्योगपति कमलनाथ ने कभी गांव, खेत, धूप और धूल नहीं देखी, वे  गरीबों का दर्द क्या जानें। श्री शर्मा ने कहा कि कमलनाथ जब छिंदवाड़ा आए थे, तो खाली थैला लेकर आए थे। गरीबों का खून चूसकर उद्योगपति बन गए। प्रदेश के गरीबों के साथ छल किया, भ्रष्टाचार किया और आज अरबपति बन गए हैं।लोकतंत्र के हिमायती होने का ढोंग न करें कमलनाथशर्मा ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ अब ये दुहाई दे रहे हैं कि आने वाला चुनाव लोकतंत्र को बचाने का चुनाव है। जबकि कांग्रेस के ही वरिष्ठ नेता डॉ. गोविंद सिंह कहते हैं कि कमलनाथ के निर्णयों से कांग्रेस का आंतरिक लोकतंत्र खत्म हो गया है। यही नहीं, बल्कि इस देश में इमरजेंसी लगाकर इंदिरा गांधी जी के साथ लोकतंत्र की हत्या की योजना के रणनीतिकार भी कमलनाथ ही थे। उन्होंने कहा कि इमर्जेंसी में स्व. राजामाता जी को भी 19 महीने जेल में काटना पड़े थे, जिनकी हम आज जन्म शताब्दी मना रहे हैं। शर्मा ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया जी ने जो कदम उठाया है, वह कमलनाथ जी को प्रदेश से बोरिया-बिस्तर समेट कर जाने पर मजबूर कर देगा।सिंधिया जी ने जमीन खिसका दी, इसलिए अनर्गल बयानबाजी कर रहे कांग्रेसीशर्मा ने कहा कि कमलनाथ ने वल्लभ भवन को दलाली का अड्डा बना दिया था। उन्होंने लोकतांत्रिक तरीके से चुने गए जनप्रतिनिधियों का अपमान किया और आज भी कर रहे हैं। उन्हें हमेशा पैसा दिखता है, इसलिए उन्होंने दिग्विजयसिंह के इशारे पर मध्यप्रदेश में खरीद-फरोख्त और और दबाव की राजनीति का काम शुरू किया। इसे भारतीय जनता पार्टी ने रोका। सिंधिया जी ने कमलनाथ सरकार की जमीन खिसका दी और कांग्रेस को सत्ता से बाहर जाना पड़ा। अब अपना अस्तित्व खतरे में नजर आ रहा है तो कमलनाथ और दिग्विजयसिंह सिंधिया जी के खिलाफ अनर्गल बयानबाजी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सिंधिया ने कांग्रेस में रहते हुए भी राम मंदिर, सीएए, धारा-370 की समाप्ति का समर्थन किया और ये संस्कार स्व. राजामाता जी के समय से ही उनके भीतर थे, जो अब मुखरित हुए हैं। शर्मा ने कहा कि जनता ने आज जीतू पटवारी, कमलनाथ और कांग्रेस के नेतृत्व को आईना दिखा दिया है कि कांग्रेस की सरकार ने मध्यप्रदेश में क्या काम किया है।

Dakhal News

Dakhal News 12 October 2020


gwalior, Rajmata removed, unjust government first , Jyotiraditya removed, Shivraj

ग्वालियर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को राजमाता स्व. विजयराजे सिंधिया के जन्म शताब्दी वर्ष के अवसर पर उनकी स्मृति में 100 रुपये के सिक्के का विमोचन किया। इस वर्चुअल कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री नरेंद्रसिंह तोमर, ज्योतिरादित्य सिंधिया समेत अनेक मंत्रियों, जनप्रतिनिधियों, पार्टी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने ग्वालियर से सहभागिता की।   कार्यक्रम को ग्वालियर से संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि श्रद्धेय राजमाता जी ने हमेशा अन्याय के खिलाफ  आवाज उठाई और जब 1967 में कांग्रेस की सरकार ने प्रदेश की जनता के साथ अन्याय किया तो उन्होंने उस सरकार को जमीन दिखा दी। वहीं फिर से कांग्रेस ने प्रदेश में कुशासन दिया तो ज्योतिरादित्य सिंधिया ने आवाज उठाई और सरकार को गिराकर राज्य में नई सरकार बनवाई।    बंधन वाटिका में आयोजित इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि श्रद्धेय राजमाता जी भले ही राजघराने की थीं, लेकिन सेवा का प्रतीक थीं और उन्होंने हमेशा अन्याय के खिलाफ  संघर्ष किया। जब 1967 में प्रदेश की जनता के साथ कांग्रेस की सरकार ने अन्याय किया तो उन्होंने इस सरकार को गिराने में देर नहीं की। उसी प्रकार स्व. माधवराव ने अन्याय के खिलाफ आवाज उठाकर विकास कांग्रेस बनाई और अब ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रदेश को कांग्रेस के कुशासन मुक्ति दिलाकर नई सरकार बनाने में योगदान दिया है। उन्होंने कहा कि जब 1971 में पूरे देश में इंदिरा लहर थी और उस समय स्व. माधवराव जी भी राजमाता के साथ जनसंघ में थे, लेकिन उस कांग्रेस की लहर में भी पूरे मध्य भारत क्षेत्र में 11 सीटें जीतकर जनसंघ को दी थीं। आज श्रद्धेय राजमाता जी जरुर प्रसन्न होंगी कि पूरा सिंधिया परिवार भाजपा में है और ज्योतिरादित्य सिंधिया उनके अधूरे कामों को पूरा करने के लिए पार्टी और सरकार के साथ जुड़े हैं।    मुख्यमंत्री ने कहा कि श्रद्धेय राजमाता जी केवल एक परिवार की नहीं बल्कि लाखों लोगों की मां थी और लोगों के दिलों में स्थापित थीं। उन्होंने एक प्रसंग को याद करते हुए बताया कि जब नर्मदा नदी में बाढ़ आई तो उनका गांव भी डूब गया। उस समय राहत देने न तो प्रशासन पहुंचा और न ही सरकार, लेकिन राजमाता जी लोगों के लिए राहत सामग्री लेकर पहुंच गईं। भाजपा का आज जो विशाल वट वृक्ष है, उसमें श्रद्धेय राजमाता जी के साथ ठाकरे जी व अटलजी का अतुलनीय योगदान है और ऐसी ममतामयी, स्नेहमयी दयावान मां को स्मरण करके हम सभी लोग श्रृद्धांजलि अर्पित कर रहे हैं।    कार्यक्रम में केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि श्रद्धेय राजमाता जी के जन्म शताब्दी वर्ष पर भारत सरकार 100 रुपए का स्मारक सिक्का जारी करके उनके योगदान को याद कर रही है। उन्होंने कहा कि देश में कई रियासतें थीं और कई राजमाताएं और महारानियां थीं, लेकिन देश में आजादी और लोकतंत्र आने के बाद जो काम श्रद्धेय राजमाता विजयाराजे जी ने किए, जिससे वे ऐसी लोकप्रिय हुईं कि दूसरे राजघराने उनके पासंग भी नहीं हैं।    कार्यक्रम में राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने श्रद्धेय राजमाता जी को याद करते हुए कहा कि शताब्दी समारोह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उनके योगदान को चिर स्थायी बनाने के लिए जो स्मारक सिक्का जारी किया है, वो केवल देश के लोगों को नहीं, बल्कि मध्य प्रदेश और ग्वालियर-चंबल के लोगों को प्रेरणा देता रहेगा। श्रद्धेय आजी अम्मा जी (राजमाता विजयाराजे सिंधिया) ने जीवन भर गरीबों, खासतौर से महिलाओं के हितों के लिए संघर्ष किया। श्रद्धेय कुशाभाऊ ठाकरे जी, अटलजी के साथ मिलकर देश, प्रदेश और ग्वालियर के उत्थान का लक्ष्य बनाया। अब प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राजमाता जी के आदर्शों पर चलते हुए प्रदेश का विकास करने में जुटे हुए हैं।    कार्यक्रम की संयोजक और पूर्व मंत्री माया सिंह ने कहा श्रद्धेय राजमाता जी ने महिलाओं को मजबूत बनाने की दिशा में हर कदम उठाए। उन्होंने अटलजी के साथ मिलकर भाजपा का निर्माण किया और महिलाएं राजनीति में आएं, इसके लिए महिला मोर्चा का गठन करके लाखों महिलाओं को पार्टी से जोड़ा। राजमाता जी ने हमेशा बेटियों को पढ़ाने के लिए प्रेरित किया। उनका कृतित्व इतना महान है कि इसका पता ऐसे चलता है कि भारत सरकार उनके योगदान पर स्मारक सिक्का जारी कर रही है।    कार्यक्रम के पहले मुख्यमंत्री ने बंधन वाटिका में श्रद्धेय राजमाता जी के जीवन पर आधारित एक चित्र प्रदर्शनी का शुभारंभ किया। इस कार्यक्रम में भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रभात झा, ग्वालियर सांसद विवेक नारायण शेजवलकर, प्रदेश सरकार के मंत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह, मंत्रीगण श्रीमती इमरती देवी, प्रद्युम्न सिंह तोमर, भारत सिंह कुशवाह, पूर्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता, गौरीशंकर बिसेन, विधायक अजय बिश्नोई, प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर, ग्रामीण जिलाध्यक्ष कौशल शर्मा, शरद गौतम, महेश उमरैया, श्रीमती खुशबू गुप्ता, श्रीमती सुमन शर्मा सहित महिला मोर्चा की कार्यकता उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 12 October 2020


indore,240 boxes, liquor found , BJP leader, police arrested

इंदौर। इंदौर जिले के सांवेर विधानसभा में होने वाले उपचुनाव के पहले पुलिस ने बीती रात 240 पेटी शराब के साथ भाजपा नेता एवं पूर्व सरपंच घमश्याम खीची को गिरफ्तार किया है। खुड़ैल थाना क्षेत्र के सेमलियाचाऊ में कांग्रेसियों की शिकायत के बाद 240 पेटी शराब जब्त की गई। अवैध शराब जब्त होने पर कांग्रेस का कहना है कि मंत्री तुलसी सिलावट और जिला भाजपा अध्यक्ष राजेश सोनकर के सबसे करीबी समर्थक घनश्याम खींची है, जिनके गोदाम से यह 240 पेटी शराब जब्त हुई है।   पुलिस के अनुसार, मुखबिर से सूचना मिली थी कि खुड़ैल थानांर्गत सेमल्याचाऊ में एक व्यक्ति के घर में बड़ी मात्रा में शराब उतारी गई है। इस सूचना पर क्राइम ब्रांच की टीम ने खुड़ैल पुलिस को साथ लिया और यहां रहने वाले घनश्याम पुत्र धन्नालाल खिंची के घर पर दबिश देकर कमरों की तलाशी ली तो एक कमरे में छिपाकर रखी गई लाखों रुपये कीमत की 240 पेटी शराब बरामद की गई। उक्त शराब के संबंध में घनश्याम पुलिस की पूछताछ में कोई संतोषनजक जवाब नहीं दे सका तो उसे पुलिस ने गिरफ्त में ले लिया।    मामले में कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि भाजपा नेता घनश्याम खींची को जहां पुलिस ने आरोपित बनाया, वहीं उनके दोनों पुत्रों को भाजपा नेताओं के दबाव में छोड़ दिया गया। जिला कांग्रेस अध्यक्ष सदाशिव यादव का कहना है कि अब पुलिस उसमें नया खेल कर रही है कि घनश्याम खींची और उनके पुत्रों के कहने पर गोडाउन किराये का एग्रीमेंट देवास के दो के नाम करने का खेल किया जा रहा है। यह सब मंत्री और जिला भाजपा अध्यक्ष के इशारे पर किया जा रहा है। इधर खीची के पुत्रों का भी यही कहना था कि हमने गोडाउन देवास के दो लोगों को किराये पर देकर एग्रीमेंट किया हुआ है। एक अभी देवास में रह रहा है और दूसरा अभी इसी गोडाउन में रह रहा था।

Dakhal News

Dakhal News 10 October 2020


khargon, Fraud, former Agriculture Minister, Sachin Yadav, miscreant transfers

खरगोन। मप्र की पूर्ववर्ती कमलनाथ सरकार में कृषि मंत्री रहे कसरावद से कांग्रेस विधायक सचिन यादव धोखाधड़ी का शिकार हो गए हैं। अज्ञात आरोपित ने धोखे से उनके बैंक खाते से 20 लाख रुपये पार कर दिए। रकम निकलने का मैसेज मिलने पर उन्होंने तत्काल बैंक और पुलिस को फर्जीवाड़े की सूचना दी। जिसके बाद पुलिस आरोपित जालसाज का पता लगाने में जुट गई है।   जानकारी अनुसार, अज्ञात बदमाश ने धोखाधड़ी से पूर्व कृषि मंत्री सचिन यादव के खरगोन एसबीआई बैंक शाखा सब्जी मंडी से फर्जी फोन कर 20 लाख रुपये की राशि ट्रांसफर करवाई। सचिन यादव की निमाड़ मोटर्स फर्म के तीन खातों का लेटर भेज, फोन से बैंक मैनेजर को राशि ट्रांसफर करने का फोन लगाकर धोखाधड़ी की। इतना ही नहीं आरोपित ने मोबाइल पर सचिन यादव बनकर फोन लगाया। सचिन यादव को रकम निकासी का मैसेज मिलने के बाद धोखे की जानकारी लगी। उन्होंने तत्काल बैंक एवं पुलिस को सूचना दी। शनिवार को मामला सामने आने के बाद बैंक एवं पुलिस की मदद से साढ़े तीन लाख रिकवर कर लिये गए हैं, जबकि साढ़े सोलह लाख की राशि की बरामदगी और बदमाशों को पकड़ने में पुलिस जुटी हुई है।

Dakhal News

Dakhal News 10 October 2020


anuppur, Kamal Nath, government cheated ,Union Minister Kulaste

अनूपपुर। कमलनाथ जी, प्रदेश की जनता ने आपके वचनों पर भरोसा कर सत्ता आपको दी। अपने दिये गये वचनों को भंग कर प्रदेश की जनता को धोखा दिया। अपने 15 महीने के कार्यकाल में केवल आपने भाजपा कार्यकर्ताओं के विरुद्ध बदले की कार्यवाही की। यह बात शुक्रवार शाम अनूपपुर में आयोजित भाजपा कार्यकर्ताओं के मंडल सम्मेलन को संबोधित करते हुए केन्द्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने कही।   उन्होंने कहा कि मप्र में 3 नवम्बर को होने वाले 28 सीटों पर उप चुनाव ऐतिहासिक तथा भाजपा सरकार को स्थिरता देने वाला चुनाव होगा। अनूपपुर ग्रामीण मंडल के 7 सेक्टर के कार्यकर्ताओं का यह सम्मेलन बहुत महत्वपूर्ण है। चुनाव की दृष्टि से अनूपपुर के सभी 7 मंडल के कार्यकर्ता इतिहास रचने जा रहे हैं। प्रदेश में जब भी उप चुनाव हुए हैं, हमारे कार्यकर्ता पूरे मनोयोग से चुनाव जीतने के लिये कार्य करते हैं। आज हम सत्ता में हैं लेकिन अल्पमत में हैं। बिसाहूलाल सिंह ने भाजपा कार्यालय जा कर इस्तीफा दिया। इसलिये इस उप चुनाव का बहुत महत्व है। हमारा यह कर्तव्य है कि प्रदेश में सर्वाधिक मतों से अनूपपुर चुनाव में विजय सुनिश्चित करें।   पूर्व मंत्री व उप चुनाव प्रभारी राजेन्द्र शुक्ला ने कांग्रेस पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि पन्द्रह माह के शासन काल में अपना परिवार ना संभाल पाने वाली कांग्रेस प्रदेश में सुशासन की बात करती है। कांग्रेस ने विद्वेष वश शिवराज सरकार की तमाम कल्याणकारी योजनाओं को बन्द कर दिया। इनके 15 माह के कार्यकाल में प्रदेश की गरीब जनता त्राहि- त्राहि कर उठी।  इन्होंने गरीबों से कफन तक छीन लिया। भाजपा कार्यकर्ताओं पर बदले की भावना से कार्यवाही की गयी। मप्र में पहली बार 28 विधानसभाओं में उप चुनाव हो रहे हैं। यह हमारे आस्तित्व की लड़ाई है, सरकार को स्थिरता देने की लड़ाई है। उप चुनाव में विजय प्राप्त करने के बाद प्रदेश की भाजपा जन कल्याण के शेष कार्य,सभी योजनाओं को सफलता पूर्वक लागू कर पाएगी। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं की एकजुटता के दम पर हम ऐतिहासिक मतों से चुनाव जीतेंगे।   पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक रामलाल रौतेल ने कहा कि जब भी देश एवं प्रदेश में भाजपा की सरकार बनती है तो आम जनता में यह भरोसा होता है कि अब जन कल्याणकारी योजनाओं का कुशल क्रियान्वयन होगा। बिसाहूलाल सिंह ने भाजपा की सदस्यता की है, वे इस क्षेत्र के समग्र विकास के लिये काम करेगें। आम जनता से उन्होंने बिसाहूलाल सिंह को प्रचण्ड मतों से विजयी बनाने की अपील की। जिलाध्यक्ष ब्रजेश गौतम ने कहा कि 2018 मे प्रदेश में बनी कांग्रेस की लंगडी लूली सरकार ने सभी जन कल्याणकारी योजनाओं को बन्द कर दी। पन्द्रह महीने में कांग्रेस ने किसान, मजदूर, छात्र, व्यवसायी सभी से छल किया। इस दौरान उप चुनाव मिडिया प्रभारी मनोज द्विवेदी सहित अन्य उपस्थित रहे।

Dakhal News

Dakhal News 9 October 2020


bhopal, Shivraj does not ,trust anyone, Supari resolutions, Congress

भोपाल। मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने कहा है कि राजनीतिक इतिहास में पहली बार भाजपा में ऐसा अविश्वास देखने को मिल रहा है कि शिवराज विभिन्न उपचुनाव वाले क्षेत्रों में आयोजित बूथ सम्मेलनों में जाकर कार्यकर्ताओं व अपने नेताओं को मंत्रोचार के साथ ‘‘सुपारी संकल्प" दिला रहे हैं कि वह पार्टी के लिए ईमानदारी, निष्ठा से काम करेंगे।   सलूजा ने बताया कि इसके पीछे वास्तविकता यह है कि कांग्रेस से गद्दारी कर सिंधिया समर्थक भाजपा में आए हैं, इसलिए उन पर शिवराज जी व भाजपा को आज भी विश्वास नहीं हो पा रहा है। शिवराज जी व भाजपा का मानना है कि जिन्होंने कांग्रेस से गद्दारी की है, वह भाजपा के साथ कैसे ईमानदारी से रहेंगे ?इसलिए इस तरह का ‘‘सुपारी संकल्प’’ दिलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि साथ ही भाजपा में जिस तरह से बिकाऊ-टिकाऊ का झगड़ा सामने आ रहा है। बिकाऊओं के आने के बाद से सारे टिकाऊ नाराज हैं तो शिवराज जी को यह भी लग रहा है कि भाजपा का वह समर्पित कार्यकर्ता, जिसने अपने खून-पसीने से पार्टी को सींचा  है, वह इन बिकाऊओं को उपचुनावों में घर ना भेज दे। इसलिए अपने निष्ठावान, समर्पित कार्यकर्ताओं पर भी अविश्वास कर उन्हें भी इस तरह का ‘‘सुपारी संकल्प’’ दिलाया जा रहा है।   सलूजा ने तंज कसते हुए कहा कि राजनीति के इतिहास में यह पहली घटना है, जब खुद मुख्यमंत्री को अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं व अपने नेताओं पर भी विश्वास नहीं हो पा रहा है और उनसे धार्मिक आधार पर संकल्प दिलाकर यह वादा लिया जा रहा है कि वे पार्टी के लिए निष्ठा, समर्पण और ईमानदारी से काम करेंगे। कांग्रेस का कहना है कि यह ‘‘सुपारी संकल्प" भाजपा के उन लाखों इमानदार कार्यकर्ताओं का अपमान है, जो वर्षों से पार्टी के लिए समर्पण भावना से काम कर रहे हैं। साथ ही यह संकल्प उन सिंधिया समर्थकों की भी वास्तविकता उजागर कर रहा है कि भले उन्होंने कांग्रेस से गद्दारी कर भाजपा का दामन थाम लिया है लेकिन आज भी भाजपा का उन पर विश्वास नहीं है।

Dakhal News

Dakhal News 9 October 2020


bhopal, Motherly condolences ,Cabinet Minister ,Mahendra Singh Sisodia

भोपाल। पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री महेन्द्र सिंह सिसौदिया माताजी इंद्रादेवी सिसोदिया का शुक्रवार सुबह निधन हो गया। मंत्री सिसौदिया ने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दी और कहा कि अत्यंत दु:ख के साथ सूचित करना पड़ रहा है कि मेरी पूज्य माताजी इंद्रादेवी सिसोदिया आज नश्वर शरीर त्याग कर वैकुण्ठ धाम को चली गई हैं। उन्होंने आग्रह किया है कि कोरोना के चलते सुरक्षा की दृष्टि से अंतिम संस्कार में शामिल न हों, यही मेरी "मां" को सच्ची श्रद्धांजलि होगी।   मंत्री सिसौदिया के माताजी के निधन पर मप्र के सीएम शिवराज सिंह चौहान और गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने गहरा दुख व्यक्त किया है। सीएम शिवराज ने माताजी को श्रद्धांजलि देते हुए अपने ट्वीट में कहा ‘हमारे कैबिनेट साथी श्री @Iamsisodiav जी की पूज्य माताजी श्रीमती इंद्रादेवी सिसोदिया जी के निधन का समाचार सुनकर अत्यंत दु:ख हुआ। ईश्वर से दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान और परिजनों को यह गहन दु:ख सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं।    गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने अपने शोक संदेश में कहा ‘कैबिनेट में मेरे सहयोगी श्री महेंद्र सिंह सिसोदिया जी की माता जी श्रीमती इंद्रादेवी सिसोदिया जी के निधन का समाचार सुनकर मन दुखी है। ईश्वर से प्रार्थना है कि दिवंगत पुण्यात्मा को शांति प्रदान करें और परिवार को यह दुख सहन करने की शक्ति प्रदान करें।

Dakhal News

Dakhal News 9 October 2020


burhanpur, BSC and BCom classes ,tribal children, Chief Minister

बुरहानपुर, 08 अक्टूबर (हि.स.)। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान गुरूवार बुरहानपुर जिले के धूलकोट पहुंचे। यहां उन्होंने कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते कहा कि धूलकोट के आदिवासी बच्चों के लिए बीएससी व बीकॉम की क्लास भी चालू की जाएगी। इंदौर में पढ़ने वाले बच्चों के लिए कोचिंग का खर्च और भवन का किराया शिवराज सिंह चौहान की सरकार वहन करेगी।   सीएम ने महत्वपूर्ण घोषणा करते हुए कहा कि 2005 के पहले के कब्जेधारियों को पट्टे दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि वन मंत्री विजय शाह को निर्देश दिए जा चुके हैं कि पट्टा वितरण में कोई कमी न आए। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पूर्ववर्ती कमलनाथ सरकार व कांग्रेस को गद्दार बताया। उन्होंने कहा कि किसानों की कर्जमाफी, बेरोजगारी भत्ता, कन्यादान योजना में 51 हजार देने के वादे को कमलनाथ सरकार ने पूरा नहीं किया। बीजेपी की सरकार की योजनाओं को बंद किया। हमने दोबारा चालू किया। कमलनाथ की सरकार में गरीबों के लिए समय नही था। दलालों के लिए दरवाजे खुले थे। कमलनाथ की सरकार बेईमानों की सरकार थी।   इस बार चूक हुई तो पछताना पड़ेगा -सांसद इस दौरान सांसद नंदकुमार सिंह चौहान ने कहा कि इस बार हमें चूकना नहीं है। यह चुनाव शिवराजसिंह चौहान को मुख्यमंत्री बनाए रखने का है। अगर हम यहां चूक गए तो पछताना पड़ेगा, क्योंकि मप्र में कमलनाथ की सरकार ने 15 महीने के कार्यकाल में ही प्रदेश को विकास से कोसो दूर कर  दिया। इस बार हमें यह गलती नहीं करना है। भाजपा प्रत्याशी सुमित्रा कास्डेकर ने कहा कि भाजपा में विकास की बात होती है इसलिए कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आई हूं। यहां आते ही नेपानगर अस्पताल के लिए राशि स्वीकृत हुई। कईं सडक मार्गों की स्वीकृति मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने एक आग्रह पर की। इसलिए इस बार हमें मौका दें। नेपानगर विधानसभा के विकास में कोई कमी नहीं आने दी जाएगी।     समर्थकों के साथ कईं कांग्रेसी भाजपा में हुए शामिल मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कांग्रेस से भाजपा में आए सुमित्रा कास्डेकर के सैकडों समर्थकों को भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराई। पूर्व विधायक सुमित्रादेवी कास्डेकर के निजी सहायक रहे जितेंद्र प्रजापति के अलावा कांग्रेस में कईं पदों पर रहे सचिन मंडलकर सहित अन्य कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। इस दौरान सीएम शिवराजसिंह चौहान ने उनका स्वागत  किया।   आदिवासी क्षेत्रों से सीएम की सभा सुनने पहुँचे आदिवासी मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की सभा अचानक हुई थी, लेकिन इसके बावजूद सभा सुनने के लिए धूलकोट सहित आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों से काफी संख्या में आदिवासी यहां सभा सुनने पहुंचे। इस दौरान सीएम ने मंच से 2005 से पहले आदिवासी भूमि पर काबिज कब्जाधारियों को पट‌‌्टे  दिए जाने की घोषणा की।     नेपानगर की दशकों पुरानी समस्या का होगा निराकरण   मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को पूर्व मंत्री अर्चना चिटनिस ने नेपानगर की दशकों पुरानी समस्या 300 एकड़ वन भूमि का नगर पालिका नेपानगर को हस्तांतरित करने एवं वन भूमि को राजस्व भूमि घोषित किए जाने हेतु पत्राचार किया था। जिसके परिणामस्वरूप नेपानगर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम धूलकोट में कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को संबोधित करने आए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दशकों पुरानी समस्या के निदान करते हुए और अपनी स्वीकृति देते हुए जल्द से जल्द इसे अमलीजामा पहनाए जाने की बात कही। जिससे नेपानगर वासियों ने हर्ष व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान एवं पूर्व मंत्री अर्चना चिटनिस का धन्यवाद-आभार ज्ञापित किया।     कार्यक्रम की प्रमुख झलकियाँ   1. आदिवासी समाज ने मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को तीर कमान भेंट किये।   2. शिवा बाबा समिति ने मुख्यमंत्रीजी का आभार व्यक्त किया।   3. छात्रों की मांगों पर अगले सत्र से बीकॉम, बीएससी की सुविधा धुलकोट क्षेत्र में मिलेंगी। 4. पट्टा धारियों को मिलेंगा मुख्यमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ।

Dakhal News

Dakhal News 8 October 2020


bhopal, Congress counter-attack ,Minister Narottam Mishra

  भोपाल। प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को चेतुआ बताए जाने वाले बयान पर कांग्रेस ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। कांग्रेस नेता नरेंद्र सलूजा ने पलटवार करते हुए कहा कि पूर्व सीएम कमलनाथ को चेतुआ बोलना नरोत्तम मिश्रा के मुकाबले कमलनाथ का कद बहुत बड़ा है। अपने छोटे कद से कमलनाथ के बारे में टिप्पणी करने वाले नरोत्तम मिश्रा यह जान लें कि जिस चेतुआ शब्द का वह जिक्र कर रहे हैं और कह रहे है कि फसल कटाई के समय ही वो आता है और गायब हो जाता है तो वो चेतुआ तो शिवराज व खुद नरोत्तम मिश्रा है, जो कमलनाथ की 15 माह की बोयी फसल को काटने का काम कर रहे है।   सलूजा ने निशाना साधते हुए कहा कि नरोत्तम मिश्रा कह रहे है कि कमलनाथ चुनाव के समय ही नजर आते हैं तो वह यह जान ले कि कमलनाथ पिछले 40 वर्ष से सांसद हैं, लगातार सर्वाधिक बार सांसद चुनने का रिकॉर्ड उनके नाम है। यदि वे ऐसे जनप्रतिनिधि होते जो सिर्फ चुनाव के समय ही नजर आते हैं तो शायद जनता 40 वर्ष तक उनको चुनाव नहीं जिताती, ऐसे जनप्रतिनिधि को तो जनता कभी का घर भेज देती। जिस तरह शिवराज व भाजपा को जनता ने घर भेज दिया। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि एक 40 वर्ष तक सांसद रहने वाले व्यक्ति को चेतुआ बताना निश्चित तौर पर मंत्री नरोत्तम मिश्रा के मानसिक दिवालियापन का सबूत है।  

Dakhal News

Dakhal News 8 October 2020


shivpuri, Villagers hear ,BJP candidate ,seeking votes

शिवपुरी। मप्र की राजनीति में अब बिकाऊ वर्सेस टिकाऊ का मुद्दा जोर-शोर से उठने लगा है। इसके चलते शिवपुरी जिले के पोहरी विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी और सिंधिया समर्थक सुरेश राठखेड़ा को ग्रामीणों ने खरी-खोटी सुना दी। पोहरी विधानसभा सीट के भौराना गांव के ग्रामीणों द्वारा पीडब्ल्यूडी राज्य मंत्री और भाजपा प्रत्याशी सुरेश राठखेड़ा को चौपाल पर जमकर खरी-खोटी सुनाए जाने का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें भाजपा प्रत्याशी सुरेश राठखेड़ा की जमकर क्लास ली जा रही है। मंत्री भी ग्रामीण की बात को सुन रहे हैं और सफाई देते नजर आ रहे हैं। पोहरी विधानसभा सीट के जिस गांव का यह वीडियो है वह बुधवार की शाम का बताया जा रहा है।   वीडियो में भाजपा प्रत्याशी पर झल्लाते हुए एक ग्रामीण ने उनसे ये पूछ लिया कि चुनाव जीतने के बाद आज तक गांव की तरफ नहीं देखा। अब उपचुनाव आ गए हैं तो फिर आ गए, आज पता चला कि, आप हमारे विधायक हैं। ग्रामीण के सवाल पर पीडब्ल्यूडी मंत्री और भाजपा प्रत्याशी वीडियो में सफाई देते हुए दिख रहे हैं। यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ है। गौरतलब है कि पोहरी से भाजपा प्रत्याशी बनाए गए सुरेश राठखेड़ा ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक नेता हैं और कांग्रेस से विधायक पद से त्यागपत्र देकर भाजपा में आए हैं। भाजपा ने पोहरी विधानसभा सीट से उपचुनाव के लिए इन्हें अपना उम्मीदवार बनाया है। 

Dakhal News

Dakhal News 8 October 2020


bhopal, MP by-election,BSP released, third list, candidates declared, nine seats

भोपाल। मध्यप्रदेश में विधानसभा की रिक्त 28 सीटों पर होने वाले उपचुनावों में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) भी पूरी ताकत के साथ मैदान में उतर आई है। पार्टी ने बुधवार को अपनी सूची जारी कर दी है, जिसमें नौ सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नाम घोषित किये गये हैं।    बसपा प्रदेश अध्यक्ष इंजी. रमाकान्त पिप्पल द्वारा बुधवार को पार्टी सुप्रीमो बहन मायावती के आदेश पर जारी की गई सूची के अनुसार, दिमनी विधानसभा क्षेत्र से राजेन्द्र सिंह कंषाना और सुमावली से राहुल डंडोतिया को उम्मीदवार घोषित किया गया है, जबकि अशोकनगर से स्ट्रोम बिलिम भंडारी और मुंगावली से वीरेंद्र शर्मा को टिकट दिया गया है। वहीं, हाट पिपलिया से राजेश नागर, बदनावर से ओम प्रकाश मालवीय, सुरखी से गोपाल प्रसाद अहिरवार, नेपानगर से भलसिंह पटेल और अनूपपुर से सुशील सिंह परस्ते को बसपा ने अपना उम्मीदवार बनाया है।   गौरतलब है कि बसपा इससे पहले दो सूची जारी कर चुकी है। पहली सूची में आठ और दूसरी में 10 सीटों पर उम्मीदवारों के नाम घोषित किये गये थे। इस तरह अब तक 28 में से 27 सीटों पर बसपा अपने उम्मीदवार घोषित कर चुकी है। अब एक सीट पर उम्मीदवार की घोषणा होना बाकी है। वहीं, भाजपा ने मंगलवार की रात सूची जारी कर सभी सीटों पर अपने उम्मीदवार घोषित कर दिये हैं, जबकि कांग्रेस ने भी तीन सूचियों में अब तक 27 सीटों पर अपने उम्मीदवारों घोषित कर चुकी है। हालांकि, प्रदेश में मुख्य मुकाबला भाजपा और कांग्रेस के बीच ही होना है, लेकिन बसपा के मैदान में आने से कई सीटों पर त्रिकोणीय मुकाबला देखने को मिल सकता है।

Dakhal News

Dakhal News 7 October 2020


rewa, Will complete ,Vindhya

रीवा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को रीवा में 150 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित सुपर स्पेशिलिटी हास्पिटल का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने समारोह में 399 करोड़ रुपये की लागत के निर्माण कार्यों का लोकार्पण तथा शिलान्यास किया इस अवसर पर उन्होंने कहा कि विन्ध्य क्षेत्र के विकास में जो कसर रह गई है उसे तीन साल में पूरा करेंगे। विन्ध्य क्षेत्र की जनता का आशीर्वाद नहीं होता तो शिवराज सिंह मुख्यमंत्री भी नहीं बनते। पिछले 15 वर्षों में विन्ध्य क्षेत्र में बाणसागर बांध, सोलर पावर प्लांट, अच्छी सड़कों, मुकुंदपुर व्हाइट टाइगर सफारी सहित विकास की अनेक सौगातें दी गई हैं। मुख्यमंत्री ने विन्ध्य की धरा और जनता को मंच पर दंडवत प्रणाम करके आभार व्यक्त किया।     मुख्यमंत्री ने कहा कि सुपर स्पेशलिटी हास्पिटल से रीवा ही नहीं पूरे विन्ध्य को आधुनिक उपचार सुविधाओं की सौगात मिली है। इस हास्पिटल में अब ओपन हार्ट सर्जरी सहित अनेक गंभीर रोगों का उपचार हो रहा है। इसमें वर्तमान में कॉर्डियोलॉजी, कॉर्डियो वस्कुलर थोरेंसिक सर्जरी, न्यूरोलॉजी, न्यूरो सर्जरी, नेफ्रोलॉजी, यूरोलॉजी, नवजात शिशु उपचार इकाई, एनेस्थीसिया तथा रेडियो डायग्नोसिस विभाग संचालित हैं। स्वर्गीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना से इस हास्पिटल का निर्माण किया गया है। अटल जी के नमन तथा प्रधानमंत्री श्री मोदी जी के प्रति आभार व्यक्त किये बिना यह समारोह अधूरा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में देश कोरोना से सक्षमता से लड़ाई लड़ रहा है। इस समय प्रतिदिन 30 हजार से अधिक कोरोना टेस्ट हो रहे हैं। हम कोरोना से हर हाल में जीतेंगे।   मुख्यमंत्री ने कहा कि रीवा का तेजी से विकास हो रहा है। मेरी कामना है कि रीवा विकास के मामले में इंदौर, भोपाल से भी आगे निकल जाये। बाणसागर बांध का निर्माण पूरा होने के बाद क्षेत्र में तीन लाख एकड़ में सिंचाई हो रही है तथा शीघ्र ही दो लाख एकड़ क्षेत्र में सिंचाई की सुविधा होगी। विन्ध्य का किसान अब पंजाब के किसानों को पीछे छोडऩे के लिये आतुर है।   विधायक राजेन्द्र शुक्ल मेहनती और उत्साही हैं : हर्षवर्धन   इस अवसर पर केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने दिल्ली से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़ते हुए अपने सम्बोधन में कहा कि रीवा एवं विन्ध्य क्षेत्र के लिये सुपर स्पेशलिटी अस्पताल उच्च स्तरीय स्वास्थ्य सुविधाओं के लिये एक सौगात है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सच्चे जनसेवक के तौर पर प्रदेश की जनता की सेवा कर रहे हैं। उन्होंने रीवा सांसद की अपने क्षेत्र के विकास के लिये प्रतिबद्धता की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि रीवा विधायक राजेन्द्र शुक्ल मेहनती और उत्साही हैं जो हमेशा अपने क्षेत्र के विकास के लिये प्रयत्नशील रहते हैं जिसका परिणाम है कि रीवा में परिवर्तन हो रहा है। डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि कोरोना के खिलाफ प्रधानमंत्री जी शीघ्र ही जागरूकता कार्यक्रम शुरू कर रहे हैं। इसमें मध्यप्रदेश वासियों की भूमिका अहम होगी।   सुपर स्पेशलिटी अस्पताल एक सौगात है : सारंग   प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि रीवा ही नहीं अपितु पूरे विन्ध्य के लिये सुपर स्पेशलिटी अस्पताल एक उपलब्धि है। एम्स के बाद रीवा सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में नवजात शिशुओं की चिकित्सा की सुविधा होगी जो बड़ी उपलब्धि है। मुख्यमंत्री के नेतृत्व में कोरोना के विरूद्ध लड़ाई में काफी काम हुए हैं और इस संकट से हम जल्द से जल्द उबरेंगे। कार्यक्रम में सांसद जनार्दन मिश्र ने कहा कि रीवा जिले के विकास में मुख्यमंत्री चौहान का महत्वपूर्ण योगदान है। रीवा के लिए एम्स जैसी सुविधाओं वाले सुपर स्पेशलिटी अस्पताल एक सौगात है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने पूरी सह्मदयता से रीवा जिले के लिये सुपर स्पेशलिटी अस्पताल हेतु मदद की। उन्होंने अपेक्षा की कि इस अस्पताल के लिये केन्द्र से आर्थिक मदद मिले। सांसद ने कहा कि रीवा जिले में विकास की गंगा बहाने के लिये मुख्यमंत्री जी भागीरथ हैं।     इलाज के लिये अब दिल्ली, नागपुर, मुंबई नहीं जाना पड़़ेगा : राजेन्द्र   पूर्व मंत्री एवं रीवा विधायक राजेन्द्र शुक्ल ने कहा कि सुपर स्पेशलिटी अस्पताल विन्ध्य के लिये एक सौगात है। यहां के लोगों को इलाज के लिये दिल्ली, नागपुर, मुंबई जाना पड़ता था अब उनका इलाज सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में होगा। गरीब लोग भी आयुष्मान योजना का लाभ लेकर इस अस्पताल में नि:शुल्क इलाज करा सकेंगे। उन्होंने कहा कि रीवा में सबसे पहले आउटसोर्स से सीटी स्केन व डायलिसिस, एमआरआई टेस्ट प्रारंभ हुए। रीवा के लिये आज का दिन उतना ही महत्वपूर्ण है जितना महत्वपूर्ण बाणसागर बांध के शुभारंभ का दिवस था। बाणसागर की नहरों से पानी पाकर रीवा जिले के किसान समृद्धशाली हुए हैं। रीवा की पहचान व्हाइट टाइगर सफारी व मेगा सोलर प्लांट से भी है जिस प्लांट की बिजली दिल्ली की मेट्रो ट्रेन के लिये दी जा रही है।

Dakhal News

Dakhal News 7 October 2020


bhopal, BJP organized , planned attack, convoy, Kamal Nath

भोपाल। मध्यप्रदेश मीडिया विभाग के अध्यक्ष जीतू पटवारी, पूर्व मंत्री पीसी शर्मा, मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा और उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने बुधवार को जारी अपने एक संयुक्त बयान में भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की सभाओं में उमड़ रही भारी भीड़, उनकी लोकप्रियता व दिख रही अपनी संभावित हार की बौखलाहट से भाजपा निरंतर उनके व कांग्रेस के खिलाफ साजिश रच रही है। पहले कमलनाथ पर भेदभावपूर्ण तरीक़े से प्रकरण दर्ज किया गया और आज अनूपपुर मैं सभास्थल पर जाते समय रास्ते में उनके काफिले पर भाजपा ने साजिश व षड्यंत्र रच हमला कराया।   कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि अनूपपुर में भाजपा कार्यालय के सामने भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने इक_े होकर पहले काफिले को रोकने का प्रयास किया, नारेबाजी की फिर पत्थरों, बैनर, पोस्टरों से हमला करने का प्रयास किया। यह भाजपा की साजिश है क्योंकि एक दिन पूर्व ही केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर ने भाजपा कार्यकर्ताओं से आह्वान किया था कि वे कांग्रेस को मुंहतोड़ जवाब दें, डरे नहीं, चुप नहीं बैठे। उन्होंने कहा कि प्रदर्शन व हमला करने वाले भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ता थे, इसकी पुष्टि मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अभिलाष पांडे खुद कर चुके हैं। यह भाजपा की कायराना हरकत है। वह मध्य प्रदेश को यूपी-बिहार बनाना चाहती है। मध्य प्रदेश में इस तरह की परंपरा कभी नहीं रही। यहां शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव संपन्न होते हैं लेकिन भाजपा जानबूझकर साजिश व षड्यंत्र रच प्रदेश की फिजा को खराब करना चाहती है, प्रदेश के उपचुनावो को वह हिंसा की आग में झोंकना चाहती है, इसलिए वह निरंतर षड्यंत्र रच रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता यह सब देख रही है। प्रदेश भर के लाखों कांग्रेस जन भी भाजपा की इस हरकत पर चुप नहीं बैठेंगे, वे डरने, दबने, झुकने वाले नहीं हैं, वह भाजपा की इस कायराना हरकत का शांतिपूर्ण ढंग से करारा जवाब देंगे।  

Dakhal News

Dakhal News 7 October 2020


bhopal, BJP organized , planned attack, convoy, Kamal Nath

भोपाल। मध्यप्रदेश मीडिया विभाग के अध्यक्ष जीतू पटवारी, पूर्व मंत्री पीसी शर्मा, मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा और उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने बुधवार को जारी अपने एक संयुक्त बयान में भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की सभाओं में उमड़ रही भारी भीड़, उनकी लोकप्रियता व दिख रही अपनी संभावित हार की बौखलाहट से भाजपा निरंतर उनके व कांग्रेस के खिलाफ साजिश रच रही है। पहले कमलनाथ पर भेदभावपूर्ण तरीक़े से प्रकरण दर्ज किया गया और आज अनूपपुर मैं सभास्थल पर जाते समय रास्ते में उनके काफिले पर भाजपा ने साजिश व षड्यंत्र रच हमला कराया।   कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि अनूपपुर में भाजपा कार्यालय के सामने भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने इक_े होकर पहले काफिले को रोकने का प्रयास किया, नारेबाजी की फिर पत्थरों, बैनर, पोस्टरों से हमला करने का प्रयास किया। यह भाजपा की साजिश है क्योंकि एक दिन पूर्व ही केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर ने भाजपा कार्यकर्ताओं से आह्वान किया था कि वे कांग्रेस को मुंहतोड़ जवाब दें, डरे नहीं, चुप नहीं बैठे। उन्होंने कहा कि प्रदर्शन व हमला करने वाले भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ता थे, इसकी पुष्टि मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अभिलाष पांडे खुद कर चुके हैं। यह भाजपा की कायराना हरकत है। वह मध्य प्रदेश को यूपी-बिहार बनाना चाहती है। मध्य प्रदेश में इस तरह की परंपरा कभी नहीं रही। यहां शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव संपन्न होते हैं लेकिन भाजपा जानबूझकर साजिश व षड्यंत्र रच प्रदेश की फिजा को खराब करना चाहती है, प्रदेश के उपचुनावो को वह हिंसा की आग में झोंकना चाहती है, इसलिए वह निरंतर षड्यंत्र रच रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता यह सब देख रही है। प्रदेश भर के लाखों कांग्रेस जन भी भाजपा की इस हरकत पर चुप नहीं बैठेंगे, वे डरने, दबने, झुकने वाले नहीं हैं, वह भाजपा की इस कायराना हरकत का शांतिपूर्ण ढंग से करारा जवाब देंगे।  

Dakhal News

Dakhal News 7 October 2020


gwalior, Sonia-Rahul, first see, their manifesto ,then protest,Union Minister Tomar

  ग्वालियर। केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा है कि कृषि कानून में किए गए संशोधन से किसानों की आय दोगुना होगी। इन नए कानूनों से सर्वाधिक लाभ किसानों का होगा। इसे लेकर कांग्रेस द्वारा जो दुष्प्रचार किया जा रहा है वह एकदम गलत है क्योंकि वर्ष 2018-19 के लोकसभा चुनाव के पहले कांग्रेस ने अपने घोषणा-पत्र में इन्हीं कानूनों के बदलाव की बात कही थी। ऐसे में सोनिया और राहल गांधी को पहले अपना घोषणा-पत्र देखना चाहिए, तब स्पष्ट हो जाएगा कि दोनों में से कौन गलत है। क्योंकि दोनों सही नहीं हो सकते। यह बात उन्होंने मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत में कही।   केन्द्रीय मंत्री तोमर ने कहा कि जो लोग मोदी सरकार द्वारा बनाए गए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं, मैं उन्हें यह बता देना चाहता हूं कि मोदी सरकार साफ नीयत से काम करती है, किसी स्वार्थ या दबाव से नहीं चलती। आने वाले समय में देश आत्मनिर्भर हो सके, देश की जीडीपी में कृषि क्षेत्र का सर्वाधिक योगदान हो, किसानों की माली हालत सुधरे और उनका जीवनस्तर ऊपर उठ सके, इसके लिए ये सुधारवादी कदम उठाए गए हैं। मोदी सरकार कांग्रेस के विरोध के आगे ना तो झुकेगी और ना इसके कारण रुकेगी। कृषि सुधार कानूनों पर कांग्रेस जो दुष्प्रचार कर रही है उससे उसका गरीब और किसान विरोधी चेहरा देश के सामने आ गया है। यही कारण है कि देश एक भी किसान कांग्रेस और उसके नेता राहुल गांधी के साथ नहीं है।   केन्द्रीय मंत्री ने कमलनाथ पर तंज कसते हुए कहा कि कृषि सुधार कानून संबंधी समिति में कमलनाथ भी मुख्यमंत्री के तौर पर शामिल थे। उन्होंने उस समय इस तरह के कानूनों में संशोधन पर सहमति दी थी। साथ ही कमलनाथ ने आवश्यक वस्तु अधिनियम को समाप्त करने की बात कही थी। यही नहीं स्वामीनाथन आयोग ने अपनी रिपोर्ट में इन तीनों सुधारों की वकालत की। शेतकारी संगठन के प्रमुख शरद जोशी ने किसानों को मंडियों के बंधन से मुक्त करने की बात कही। यूपीए सरकार के प्रधानमंत्री रहे मनमोहन सिंह और कृषि मंत्री रहे शरद पवार ने भी इन सुधारों पर सहमति जताई थी। अब मोदी सरकार ने बिना किसी दबाव के कृषि सुधार के विधेयकों को लागू कर दिया तो कांग्रेस सहित विपक्ष के नेता इन सुधारों को हजम नहीं कर पा रहे हैं।   उपचुनाव के सवाल पर तोमर ने कहा कि ग्वालियर-चंबल की 16 सीटों के साथ प्रदेश की सभी 28 सीटों पर भाजपा के ही प्रत्याशी जीतेंगे। प्रत्याशियों की सूची को लेकर उन्होंने कहा कि एक-दो दिन में इसकी घोषणा हो जाएगी। इस अवसर पर सांसद विवेक शेजवलकर, प्रदेश मीडिया प्रमुख लोकेन्द्र पाराशर, जिलाध्यक्ष  कमल माखीजानी, मीडिया पैनेलिस्ट आशीष अग्रवाल एवं संभागीय मीडिया प्रभारी पवन सेन भी उपस्थित थे।समाप्त होगा बिचौलिया और इंस्पेक्टर राज: कृषि कानून पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने बताया कि एमएसपी एक सीमित समय के लिए होती थी और जब इसके अलावा किसान फसल लेकर मंडी पहुंचता तो वहां के व्यापारी और बिचौलिए एक समूह बनाकर फसल कम दामों पर बेचने पर मजबूर करते थे। अब नए कानून के बाद किसान मंडी के अलावा अपनी फसल कहीं भी बेच सकता है। व्यापारी उसकी फसल खरीदने खेतों तक पहुंचेगे और अच्छे दाम देंगे। यही नहीं मंडी के बाहर फसल बेचने पर कोई टैक्स भी नहीं देना होगा और एक्ट में प्रावधान है कि तीन दिन के भीतर व्यापारी को किसान का फसल का भुगतान करना होगा। अभी तक ऐसा कोई प्रावधान नहीं था। किसानो को अंतरराज्यीय मंच उपलब्ध होगा और ई-मंडियां बनेंगी, जिससे युवाओं को रोजगार मिलेगा और किसान बड़े शहरों में सीधे फसल बेच सकेगा। सबसे बड़ी बात यह है कि किसानों को शोषण के साथ लाइसेंस और इंस्पेक्टर राज से मुक्ति मिलेगी।  

Dakhal News

Dakhal News 6 October 2020


bhopal,Another photo, food minister ,Bisahulal Singh ,went viral, distributing 500 notes

भोपाल। मध्य प्रदेश में इन दिनों विधानसभा उपचुनाव से पहले आरोप प्रत्यारोप की राजनीति जोरों से चल रही है। इस बीच राजनेताओं के फोटो और वीडियों भी खूब वायरल हो रहे हैं। शिवराज सरकार में खाद्य मंत्री बिसाहूलाल सिंह का लोगों को 100 रुपये के नोट बांटने का फोटो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद कांग्रेस ने जमकर निशाना साधा और चुनाव आयोग को शिकायत भी की थी। वहीं अब एक बार फिर मंत्री साहू की एक ओर फोटो वायरल हुई है जिसमें वे 500 का नोट बांटते दिख रहे हैं।     कांग्रेस नेता के के मिश्रा ने अपने सोशल मीडिया हैंडल पर ट्वीट कर एक फोटो साझा की है जिसमें मंत्री बिसाहूलाल फोटो में बिसाहूलाल 500 रुपये का नोट बांटते देखे जा रहे हैं। अपने ट्वीट में के के मिश्रा ने कहा है कि मंत्री बिसाहूलाल को उनकी पार्टी से कुछ ज्यादा ही नोट मिले हैं। जो वे जनता को कभी 100 तो कभी 500 के नोट बांटते दिख जाते हैं। कांग्रेस ने कहा कि बंदा दिलदार लगता है कुछ दिनों बाद 2000 के नोट की बारी है। गौरतलब है कि इससे पहले पिछले दिनों ही कांग्रेस ने मंत्री साहू का वीडियो वायरल किया था जिसमें वे 100 का नोट बांटते नजर आ रहे थे, उस फोटो को सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हुए कांग्रेस के ओमकार सिंह मरकाम ने चुनाव आयोग में शिकायत की थी ।

Dakhal News

Dakhal News 6 October 2020


bhopal,MP, CPI-M appeals ,voters , remove BJP, mandate , overturn power

भोपाल। मध्यप्रदेश में विधानसभा की 28 रिक्त सीटों पर होने वाले उपचुनावों को लेकर मार्क्सवादी कम्यूनिस्ट पार्टी (माकपा) ने भाजपा उम्मीदवारों के खिलाफ स्वतंत्र अभियान चलाने का निर्णय लिया है। साथ ही पार्टी ने उपचुनाव वाले क्षेत्रों के मतदाताओं से जनादेश को पलटने वाली भाजपा को सत्ता से हटाने की अपील की है।   पार्टी के राज्य सचिव जसविन्दर सिंह ने मंगलवार को मीडिया को जारी अपने बयान में कहा है कि प्रदेश में होने वाले 28 विधानसभा सीटों पर होने जा रहे उपचुनाव सामान्य परिस्थितियों की उपज नहीं है, बल्कि भाजपा ने उस जनादेश को पलटकर सत्ता को हथियाने का खेल खेला है। इसमें जनादेश का अपमान करने अब भाजपा की ओर से फिर चुनाव लडऩे वाले बिकाऊ लाल भी शामिल हैं।    उन्होंने कहा कि भाजपा ने प्रदेश में सत्ता हथियाने का खेल उस खतरनाक समय में खेला था, जब प्रदेश कोरोना की चपेट में आ रहा था और भाजपा प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री सहित 22 विधायकों की खरीद फरोख्त कर सरकार बनाने में जुटी थी। इसी के चलते प्रदेश कोरोना महामारी की चपेट में आया। सत्ता पाने के साथ ही भाजपा और सिंधिया की सौदेबाजी भी बेनकाब हो गई। शिवराज सिंह चौहान के मुख्यमंत्री बनने के अगले ही दिन सिंधिया परिवार के खिलाफ राजस्व न्यायालय में चल रहे मुकदमे  वापस ले लिए गए।    माकपा राज्य सचिव जसविंदर सिंह ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार के आते ही मंडियों में किसानों की लूट फिर से चालू हो गई है। बिजली कंपनियों की लूट से उपभोक्ता फिर से परेशान है। माकपा ने आरोप लगाया है कि सत्ता हथियाने के बाद भाजपा का मकसद कारपोरेट की लूट को बढ़ाकर मजदूरों-किसानों और आम जनता पर बोझ डालना और संघ के साम्प्रदायिक एजेंडे को आगे बढ़ाकर साम्प्रदायिक ध्रवीकरण तेज करना है। उन्होंने कहा कि माकपा ने निर्णय लिया है कि इन परिस्थितियों में जनतंत्र की रक्षा के लिए तथा जनादेश को पलटने वाली भाजपा को हराने के लिए स्वतंत्र अभियान चलायेगी। पार्टी ने उपचुनाव वाले विधानसभा क्षेत्रों के मतदाताओं से भाजपा और जनादेश का अपमान करने वाले प्रत्याशियों को हराने की अपील की है।

Dakhal News

Dakhal News 6 October 2020


bhopal,Mandal conferences,explain , Congress government ,committed atrocities, Bhupendra Singh

भोपाल। गत दो अक्टूबर से प्रदेश के 28 विधानसभा क्षेत्रों में पार्टी के मंडल सम्मेलन शुरू हो चुके हैं, जो 12 अक्टूबर तक चलेंगे। इन सम्मेलनों में केन्द्र एवं प्रदेश सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को वीडियो रथ के माध्यम से पहुंचायेंगे। सम्मेलन में यह बताया जाएगा कि पिछले सवा साल में कांग्रेस की सरकार ने पार्टी कार्यकर्ताओं और आम जनता पर कैसे-कैसे अत्याचार किए हैं। यह बात चुनाव प्रबन्ध समिति के प्रदेश संयोजक भूपेंद्र सिंह ने सोमवार को प्रदेश चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक के पश्चात मीडिया से बातचीत में ही। चुनाव प्रबन्ध समिति की बैठक सोमवार को प्रदेश कार्यालय में सम्पन्न हुई।   वरिष्ठ नेता करेंगे कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन   भूपेंद्र सिंह ने कहा कि मंडल सम्मेलनों में पार्टी के वरिष्ठ नेता कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार पार्टी के वरिष्ठ नेता व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया 7 से 12 अक्टूबर के बीच सुमावली, मुरैना, दिमनी, अंबाह, मेहगांव, गोहद, ग्वालियर, ग्वालियर पूर्व, डबरा, भांडेर, करेरा, पोहरी, मुंगावली और अशोकनगर विधानसभा के मंडलों में पहुंचकर बूथ सम्मेलनों में भाग लेंगे। पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व सांसद राकेश सिंह 7 से 9 अक्टूबर तक बड़ामलेहरा, सुरखी एवं अनूपपुर विधानसभा के विभिन्न मंडलों के बूथ सम्मेलन को संबोधित करेंगे। अजा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालसिंह आर्य के 16 विधानसभाओं में कार्यक्रम होना है।    उन्होंने बताया कि अब तक 13 मंडलों में मंडल सम्मेलन हो चुके हैं और 65 मंडलों के कार्यक्रम तय हो चुके हैं। इन सम्मेलनों में प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा, मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, थावरचन्द गेहलोत, राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय, सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया सहित अन्य नेता भाग लेंगे। चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक में पार्टी के प्रदेश मंत्री पंकज जोशी, डॉ. हितेश वाजपेयी, शैलेन्द्र शर्मा, मनोरंजन मिश्रा, विकास विरानी, नरेन्द्र पटेल, अभय प्रताप सिंह, राजेन्द्र गुरू, अनुराग प्यासी सहित समिति के सदस्य उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 5 October 2020


bhopal, Congress charges, now Shivraj government, committing new fraud

भोपाल। मप्र में उपचुनाव से पहले राजनीतिक दलों के बीच आरोप प्रत्यारोप का दौर तेज हो गया है। कांग्रेस सत्ता वापसी की उम्मीद में पूरा जोर लगा रही है। पूर्ववर्ती कमलनाथ सरकार के कामों की तुलना भाजपा सरकार से करने के साथ ही भ्रष्टाचार और फर्जीवाड़े के आरोप भी खूब लग रहे हैं। वहीं अब कांग्रेस ने प्रदेश सरकार पर लेपटॉप के नाम पर भी फर्जीवाड़ा करने का गंभीर आरोप लगया है।   प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेन्द्र सलूजा ने सोमवार को जारी एक बयान में आरोप लगाया कि अब लेपटॉप के नाम पर शिवराज सरकार बड़ा फर्जीवाडा करने जा रही है। इसकी खरीदी प्रक्रिया में जमकर अनियमितता है और इसको लेकर अजीबो-गरीब शर्त रखी गयी है। अब 10 साल पुराने प्रोसेसर का लैपटाप खरीदेंगे 19 हजार पटवारी ? लैपटाप की बाज़ार की अनुमानित क़ीमत 20 हजार है लेकिन सरकार इसके लिये करेगी 50 हजार का भुगतान ?   सलूजा ने बताया कि प्रदेश के सभी पटवारियों को सरकार ने लैपटाप देने की योजना बनाई है। जिसके तहत कुछ शर्तें भी तय की गई है। इसके लिए विभागीय आदेश जारी कर निर्देश दिया गया है कि 6 वें जनरेशन के प्रोसेसर वाला लैपटॉप खरीदा जाएगा। आश्चर्य की बात यह है कि इसकी अनुमानित कीमत सिर्फ 20 हजार है और सरकार इसके लिये 50 हजार का भुगतान करेगी।   उन्होंने कहा कि वर्ष 2012-2013 में 6 जनरेशन के लैपटाप बनते थे। अब यह लैपटाप कंपनियों ने बनाना बंद कर दिया है। जानकारी के अनुसार 29 सितंबर को राजस्व विभाग ने आदेश जारी कर लैपटाप खरीदी की शर्तें तय की है। जिसमें कहा गया है कि 6 जनरेशन के प्रोसेसर वाला ही लैपटाप खरीदा जाये, जो कि अब बंद हो गए हैं। मजे की बात है कि 8-10 साल पुराने लैपटाप की देखरेख भी महज 7 साल तय की गई है। यानि वर्षों पुराने प्रोसेसर के लैपटाप वर्ष 2020 में खरीदे जाएंगे और उनकी उम्र 7 सात तक वैध रहेगी। जबकि मौजूदा समय पर आई-9 और 10 प्रोसेसर के लैपटाप बाजार में बिक रहे हैं।   सलूजा ने कहा कि खास बात है कि जैम के जरिए लैपटाप खरीदा जाना था मगर सरकार ने पटवारियों को खुद ही खरीदने के लिए कहा है। जानकारों का कहना है कि ई-6  के लैपटाप बाजार में उपलब्ध नहीं है। ऐसे में पुराने ही लैपटाप की खरीदी होगी और भुगतान 50 हजार का ?सलूजा ने कहा कि जिस लैपटाप को खरीदने के लिए सरकार ने शर्त तय की है वो सरकारी कामकाज के लिए उचित नहीं होंगे क्योंकि हैवी साफ्टवेयर को झेलने की क्षमता उनमें नहीं होगी। जबकि जैम के माध्यम से खरीदी होने पर शासन विभिन्न वेंडरों से बेहतर शर्तों पर कम कीमत पर ई-10 प्रोसेसर के लैपटाप खरीद सकती है लेकिन घोटालों, भ्रष्टाचार व फर्जीवाड़ों के लिये शिवराज सरकार जानी जाती है, इसलिये यह सब किया जा रहा है ताकि इसमें भी जमकर फर्जीवाड़ा किया जा सके।

Dakhal News

Dakhal News 5 October 2020


bhopal, Kamal Nath ,apologizes public,making state ,capital of crimes, Rahul Kothari

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी लगातार यह कहती रही है कि कमलनाथ सरकार ने प्रदेश को अंधेरनगरी बना दिया था। 15 महीनों के कार्यकाल में कमलनाथ सरकार ने प्रदेश की कानून-व्यवस्था चौपट कर दी थी और प्रदेश को अराजकता की स्थिति में धकेल दिया था। अब यही बात नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के आंकड़ों से भी साबित हो गई है। शांति के टापू मध्यप्रदेश को अपराधों की कैपिटल बनाने के लिए कमलनाथ और राहुल गांधी को प्रदेश की जनता से माफी मांगनी चाहिए। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राहुल कोठारी ने वर्ष 2019-20 की एनसीआरबी रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कही।   कोठारी ने कहा कि एनसीआरबी के आंकड़ों से यह स्पष्ट हो जाता है कि कमलनाथ सरकार ने किस तरह प्रदेश को अपराध बना दिया था। बात मासूमों पर अत्याचार की हो या असहाय बुजुर्गों पर जुल्म की, कमलनाथ सरकार ने प्रदेश को हर तरह के अपराधों में शीर्ष पर पहुंचा दिया था। कोठारी ने कहा कि कमलनाथ सरकार के समय देश में दर्ज हुए पाक्सो एक्ट के 1116 मामलों में से 214 मामले मध्यप्रदेश में दर्ज हुए, जो सबसे ज्यादा है। इसी तरह एससी/एसटी/एट्रोसिटी एक्ट के देश भर में दर्ज किए गए 195 मामलों में से 38 मामले मध्यप्रदेश में दर्ज किए गए। पूरे प्रदेश की पुलिस और प्रशासन तंत्र को तबादलों की आग में झोंक देने वाली कमलनाथ सरकार को असहाय बुजुर्गों पर भी दया नहीं आई। इस सरकार के समय देश भर में दर्ज हुए वृद्धजनों पर हमले के 6000 मामलों में से 2000 मामले मध्यप्रदेश में दर्ज हुए हैं। कोठारी ने कहा कि ये आंकड़े बताते हैं कि 2019-20 में कमलनाथ सरकार के दौरान कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने प्रदेश को माफिया प्रदेश बनाकर रख दिया था और इसके लिए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और कांग्रेस नेता राहुल गांधी को प्रदेश की जनता से माफी मांगनी चाहिए।   प्रदेश प्रवक्ता कोठारी ने कहा कि तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रदेश की जनता से झूठ बोलकर, धोखा देकर कांग्रेस की जो सरकार बनाई थी, उस सरकार ने 10 दिनों में कर्जा माफ नहीं किया। बिजली का बिल हॉफ नहीं किया। हां, उस सरकार ने पूरे देश में प्रदेश की प्रतिष्ठा को साफ करने का काम जरूर किया है।  कोठारी ने कहा कि अपनी सरकार की इस नाकामी के लिए राहुल गांधी को प्रदेश की जनता से माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी इन आंकड़ों को लेकर प्रदेश में होने जा रहे उपचुनाव में जाएगी और जनता को कमलनाथ सरकार का सच बताएगी।

Dakhal News

Dakhal News 3 October 2020


bhopal, Survival animals , important ,environmental balance, Shivraj

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विश्‍व पशु दिवस के अवसर पर कहा है कि यह पृथ्वी सभी के लिए है। केवल मनुष्य ही नहीं पशु-पक्षी, पेड़-पौधों से पृथ्वी की समग्रता पूर्ण होती है। पर्यावरण संतुलन के लिए भी पशुओं का अस्तित्व महत्वपूर्ण है।    मुख्यमंत्री चौहान ने कहा है कि राज्य शासन पशुओं के कल्याण और संरक्षण की दिशा में निरंतर सक्रिय है। पशुपालन विभाग द्वारा संचालित पशु चिकित्सालयों में सुविधाओं का विस्तार और वन विभाग द्वारा कठिन परिस्थितियों में पशुओं की देखभाल तथा उनके उपचार के लिए किए जा रहे प्रयास इसके प्रतीक हैं। स्वयंसेवी संस्थाएं भी पशुओं की देखभाल में सक्रिय हैं।    उन्‍होंने कहा कि पशुओं के प्रति संवदेनशीलता, सहानुभूति और सहृदयता आवश्यक है। राज्य शासन द्वारा इस दिशा में जागरूकता के लिए भी प्रयास किए जा रहे हैं। उल्लेखनीय है कि 4 अक्टूबर को विश्‍व पशु दिवस मनाया जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 3 October 2020


bhopal,BJP

भोपाल। उपचुनाव वाली प्रदेश की 28 विधानसभाओं के 128 मंडलों में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती 02 अक्टूबर से भारतीय जनता पार्टी के बूथ सम्मेलनों की शुरुआत हुई। मंडल सम्मेलनों में पार्टी कार्यकर्ता चुनावी तैयारियों में दोगुनी ऊर्जा के साथ जुटने का संकल्प ले रहे हैं। आगामी विधानसभा उपचुनाव को लेकर गठित पार्टी की चुनाव प्रबन्ध समिति के संयोजक भूपेंद्र सिंह ने बताया कि उपचुनाव वाली 28 विधानसभाओं के बूथ सम्मेलनों में मुख्यमंत्री, प्रदेश अध्यक्ष, केंद्रीय मंत्रीगण राष्ट्रीय पदाधिकारी भी शामिल होंगे।समिति के संयोजक भूपेंद्र सिंह ने बताया कि 3 अक्टूबर को पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव  कैलाश विजयवर्गीय सांवेर विधानसभा के प्रकाश सोनकर एवं माता अहिल्याबाई मंडल के सम्मेलनों को संबोधित करेंगे। 4 अक्टूबर को केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर दिमनी विधानसभा के थरा, सिहोनिया, अंबाह विधानसभा के पोरसा ग्रामीण, नगरा, अंबाह नगर एवं ग्रामीण मंडल के बूथ एवं 5 अक्टूबर को जौरा विधानसभा के पहाड़गंज एवं कैलारस मंडल,  मुरैना विधानसभा के मुरैना पूर्व और पश्चिम मंडल के बूथ सम्मेलनों को संबोधित करेंगे। पार्टी के वरिष्ठ नेता व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया 7 से 12 अक्टूबर के बीच सुमावली, मुरैना, दिमनी, अंबाह, मेहगांव, गोहद, ग्वालियर, ग्वालियर पूर्व, डबरा, भांडेर, करेरा, पोहरी, मुंगावली और अशोकनगर विधानसभा के मंडलों में पहुंचकर बूथ सम्मेलनों में भाग लेंगे। पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व सांसद राकेश सिंह 7 से 9 अक्टूबर तक बड़ामलेहरा, सुरखी एवं अनूपपुर विधानसभा के विभिन्न मंडलों के बूथ सम्मेलन को संबोधित करेंगे। इसी प्रकार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा, संगठन महामंत्री सुहास भगत, केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत,  प्रहलाद सिंह पटेल, फग्गनसिंह कुलस्ते, पार्टी के राष्ट्रीय मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे,, प्रदेश शासन के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा, नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह एवं अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालसिंह आर्य उपचुनाव वाली विधानसभाओं के विभिन्न मंडलों में प्रवास करते हुए बूथ सम्मेलनों में भाग लेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 2 October 2020


bhopal,BJP

भोपाल। उपचुनाव वाली प्रदेश की 28 विधानसभाओं के 128 मंडलों में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती 02 अक्टूबर से भारतीय जनता पार्टी के बूथ सम्मेलनों की शुरुआत हुई। मंडल सम्मेलनों में पार्टी कार्यकर्ता चुनावी तैयारियों में दोगुनी ऊर्जा के साथ जुटने का संकल्प ले रहे हैं। आगामी विधानसभा उपचुनाव को लेकर गठित पार्टी की चुनाव प्रबन्ध समिति के संयोजक भूपेंद्र सिंह ने बताया कि उपचुनाव वाली 28 विधानसभाओं के बूथ सम्मेलनों में मुख्यमंत्री, प्रदेश अध्यक्ष, केंद्रीय मंत्रीगण राष्ट्रीय पदाधिकारी भी शामिल होंगे।समिति के संयोजक भूपेंद्र सिंह ने बताया कि 3 अक्टूबर को पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव  कैलाश विजयवर्गीय सांवेर विधानसभा के प्रकाश सोनकर एवं माता अहिल्याबाई मंडल के सम्मेलनों को संबोधित करेंगे। 4 अक्टूबर को केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर दिमनी विधानसभा के थरा, सिहोनिया, अंबाह विधानसभा के पोरसा ग्रामीण, नगरा, अंबाह नगर एवं ग्रामीण मंडल के बूथ एवं 5 अक्टूबर को जौरा विधानसभा के पहाड़गंज एवं कैलारस मंडल,  मुरैना विधानसभा के मुरैना पूर्व और पश्चिम मंडल के बूथ सम्मेलनों को संबोधित करेंगे। पार्टी के वरिष्ठ नेता व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया 7 से 12 अक्टूबर के बीच सुमावली, मुरैना, दिमनी, अंबाह, मेहगांव, गोहद, ग्वालियर, ग्वालियर पूर्व, डबरा, भांडेर, करेरा, पोहरी, मुंगावली और अशोकनगर विधानसभा के मंडलों में पहुंचकर बूथ सम्मेलनों में भाग लेंगे। पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व सांसद राकेश सिंह 7 से 9 अक्टूबर तक बड़ामलेहरा, सुरखी एवं अनूपपुर विधानसभा के विभिन्न मंडलों के बूथ सम्मेलन को संबोधित करेंगे। इसी प्रकार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा, संगठन महामंत्री सुहास भगत, केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत,  प्रहलाद सिंह पटेल, फग्गनसिंह कुलस्ते, पार्टी के राष्ट्रीय मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे,, प्रदेश शासन के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा, नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह एवं अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालसिंह आर्य उपचुनाव वाली विधानसभाओं के विभिन्न मंडलों में प्रवास करते हुए बूथ सम्मेलनों में भाग लेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 2 October 2020


Indore, Congress workers ,assaulted BJP worker ,garlanded Bapu , Modi

इंदौर। अहिंसा के पुजारी बापू के जन्मदिवस पर शुक्रवार को इंदौर में गांधी प्रतिमा के सामने ही हिंसा देखने को मिली। पीएम नरेंद्र मोदी की वेशभूषा में बापू को श्रद्धांजलि देने आए एक भाजपा कार्यकर्ता को देख कांग्रेसियों ने अपना आपा खो दिया। माल्यार्पण बाद जैसे ही वह नीचे उतरा कांग्रेसी उस पर टूट पड़े और जमकर झूमा-झटकी की। किसी तरह पुलिस और भाजपा कार्यकर्ताओं ने उसे बाहर निकाला।    राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती पर इंदौर के रीगल चौराहे स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण का कार्यक्रम आयोजित किया गया था। उसी समय एक भाजपा कार्यकर्ता मोदी का मुखौटा लगाए महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने पहुंचा। माल्यार्पण करने के बाद जैसे ही वह नीचे उतरा कांग्रेसियों ने उसे घेर लिया और नारेबाजी शुरू कर दी। नारेबाजी के बीच कुछ कांग्रेसियों ने मोदी मुखौटा पहने भाजपा नेता पर हमला भी किया। पुलिस और भाजपा के कुछ लोगों ने बीच-बचाव करते हुए भाजपा नेता को जैसे-तैसे वहां से निकाला और रवाना किया।   भाजपा नेताओं ने की निंदा हमले के शिकार हुए भाजपा नेता लक्ष्मीनारायण शर्मा का कहना है कि वे मोदी के वेश में कार्यक्रम में शामिल होने आए थे। गांधी जी क्या केवल कांग्रेस के हैं,  सबको उन्हें माला पहनाने का अधिकार है। मैं माला पहनाने आया तो कांग्रेसी बौखला गए और मारपीट पर उतारू हो गए। यह नैतिकता के खिलाफ है। कांग्रेसियों ने मेरे साथ गाली गलौज और  मार-पीट की है। इन्होंने गांधी स्थल पर ही मारपीट की। इन पर मुकदमा दर्ज होना चाहिए। कुर्सी जाने के बाद ये पागल हो गए हैं।    वहीं, भाजपा नेता उमेश शर्मा ने कहा कि कांग्रेसियों ने गांधी प्रतिमा के समक्ष जिस प्रकार का आचरण किया, वह निंदनीय है। जीवनभर महात्मा गांधी अहिंसा के मार्ग पर चलते रहे। गांधी प्रतिमा पर सामान्य नागरिक गांधी जी की प्रतिमा पर मोदी का मुखौटा पहनकर माल्यार्पण करने पहुंचा तो उसके साथ कांग्रेसियों ने मारपीट की। कांग्रेसियों ने जिस प्रकार हिंसक आचरण किया वह शर्मनाक है। यह कारनामा इंदौर को लज्जित करने वाला है। उस व्यक्ति का अपराध बस इतना है कि वह मोदी का मुखौटा लगाकर आ गया।

Dakhal News

Dakhal News 2 October 2020


bhopal, BJP leaders, including Shivraj ,salute , birth anniversary

भोपाल। आज 2 अक्टूबर का दिन भारत के लिए दो बड़ी शख्सियतों के जन्मदिन का दिन है। इस दिन राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के साथ ही देश के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती भी है। आज ही के दिन साल 1904 में उनका जन्म उत्तर प्रदेश के मुगलसराय में हुआ था। देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के निधन के बाद लाल बहादुर शास्त्री देश के दूसरे पीएम बने और उन्होंने देश को जय जवान जय किसान का नारा दिया। लाल बहादुर शास्त्री के प्रभावशाली व्यक्तित्व का अंदाजा इस बात से लगा सकते हैं कि विदेशों में भी उनके विचारों और निडरता की तारीफ की जाती थी। उनकी जयंती पर आज पूरा देश उन्हें याद कर रहा है।   मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लाल बहादुर शास्त्री को जयंती पर नमन करते हुए कहा कि ‘परस्पर लडऩे की बजाय हमें गरीबी, बीमारी और अज्ञानता से लडऩा चाहिए- शास्त्री जी   'जय जवान जय किसान' का नारा देकर देश को नये जोश, नव विश्वास और नई शक्ति से भर देने वाले भारत के पूर्व प्रधानमंत्री स्व. लालबहादुर शास्त्री जी की जयंती पर कोटि-कोटि नमन!   भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने अपने ट्वीट में कहा कि ‘अपना सम्पूर्ण जीवन माँ भारती की सेवा में समर्पित करने वाले पूर्व प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती पर उन्हें भावपूर्ण नमन।   भाजपा राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने लाल बहादुर शास्त्री को जयंती पर स्मरण कर अपने ट्वीट में लिखा ‘स्वतंत्रता सेनानी एवं पूर्व प्रधानमंत्री 'भारत रत्न' श्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती पर सादर नमन।   प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने अपने संदेश में कहा ‘भारतीय राजनीति में सादगी, शुचिता और  उच्चतम आदर्शों के प्रतीक देश के दूसरे प्रधानमंत्री भारतरत्न लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती पर नमन और शुभकामनाएं।

Dakhal News

Dakhal News 2 October 2020


bhopal, Ajay Singh, lashed out , CM Shivraj , become a school , teach fraud

भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष और वरिष्ठ कांग्रेस नेता अजय सिंह ने सीएम शिवराज सिंह चौहान पर तंज कसा है। उन्होंने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि मध्यप्रदेश में पिछले 15 सालों से सत्ता में रहते हुए अब शिवराज सिंह चौहान अपनी पार्टी को भ्रष्ट आचरण करने, संविधान के खिलाफ काम करने और छल-कपट करने को जायज ठहराने की शिक्षा भी देने लगे हैं। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने गुरुवार को जारी अपने बयान में कहा कि अनैतिक तरीकों से सत्ता में आकर, विधायकों की खरीद फरोख्त करके और देश के इतिहास का सबसे बड़ा प्रजातंन्त्र हत्याकांड करके शिवराज बेशर्मी से अपने पार्टी पदाधिकारियों और आम जनता को कह रहे हैं कि भाजपा सरकार बनी रहे इसके लिये एक जुट रहें। सीएम शिवराज पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि शिवराज सिंह चौहान ने तो नैतिकता का दामन उसी समय छोड़ दिया था जब जनादेश वाली कमलनाथ सरकार को गिराने के लिये न सिर्फ विधायकों की खरीद फरोख्त की बल्कि पूरे देश को कोरोना वायरस के हवाले कर दिया। पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि शिवराज अब लोगों को और अपनी पार्टी को झूठ, फरेब, धोखेबाजी, अनीति, भ्रष्टाचार की सीख देने वाले  नेता बन गए हैं। अब देखना है कि खुले आम अनैतिकता और भ्रष्ट आचरण का साथ देने के लिये वे किस मुंह से उसी जनता के पास जाते हैं, जिसने शिवराज सरकार के भ्रष्टाचार से तंग आकर उन्हें नकार दिया था। उन्होने कहा कि शिवराज सिंह चौहान अनैतिक होने और छल कपट सिखाने का जीता जागता स्कूल बन चुके हैं। अब वे चाहते हैं कि उनके स्कूल में ज्यादा से ज्यादा लोग पढऩे आयें। उन्होने कहा कि आम जनता हमेशा सच का साथ देती है। शिवराज का झूठ न सिर्फ मध्यप्रदेश बल्कि पूरे देश में कुख्याति प्राप्त कर चुका है। उनके नेतृत्व में डंपर कांड से शुरू होकर व्यापम कांड और न जाने कितने कांड होते हुए जब वे सत्ता से बाहर हो गये तो "प्रजातंत्र हत्याकांड" कर दिया। जनता उन्हें कभी माफ नहीं करेगी।

Dakhal News

Dakhal News 1 October 2020


bhopal,CM Shivraj, greets President Ramnath Kovind, his birthday

भोपाल। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का आज गुरुवार को जन्मदिन है। वे आज अपना 75वां जन्मदिन मना रहे हैं। राष्ट्रपति कोविंद का जन्म 1 अक्टूबर 1945 को यूपी के कानपुर जिले एक गांव में हुआ था। वह 25 जुलाई 2017 को देश के 14वें राष्ट्रपति बने थे। उनके जन्मदिन पर देशभर से उन्हें बधाई संदेश मिल रहे हैं। मप्र के सीएम शिवराज सिंह चौहान समेत भाजपा नेताओं ने उनके दीर्घायु होने की कामना करते हुए उन्हें बधाई दी है।   सीएम शिवराज ने ट्वीट कर राष्ट्रपति कोविंद को जन्मदिन की शुभकामनाएं देते हुए कहा ‘भारत के राष्ट्रपति मा. श्री रामनाथ कोविंद जी को जन्मदिन की आत्मीय बधाई! देश व समाज के उत्थान के लिए सतत कार्य करने की आपकी विनम्र शैली हम सभी को राष्ट्र व जनसेवा के लिए प्रेरित करती है। आप सदैव स्वस्थ रहें और हम सब पर आपका आशीष ऐसे ही बना रहे, यही कामना!    भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने अपने शुभकामना संदेश में कहा ‘भारत के माननीय राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद जी को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं। ईश्वर से आपके उत्तम स्वास्थ्य व दीर्घायु की कामना करता हूँ।   भाजपा राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने राष्ट्रपति को कोविंद को जन्मदिन की बधाई देते हुए उनके दीर्घायु होने की कामना की है। उन्होंने अपने शुभकामना संदेश में कहा ‘जीवेत शरद: शतम् !!! देश के 14वें राष्ट्रपति, गुदड़ी के लाल, बहुमुखी प्रतिभा के धनी महामहिम रामनाथ कोविंद जी को जन्मदिवस पर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएँ... बाबा महाकाल की कृपा आप पर सदा बनी रहे।   प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने अपने बधाई संदेश में कहा ‘सादगी और सरलता की प्रतिमूर्ति माननीय राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद जी को जन्मदिन की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं। समाज के शोषित और वंचित वर्ग के कल्याण व सशक्तिकरण के प्रति आपका समर्पण हम सभी को प्रेरित करता है। ईश्वर से आपके उत्तम स्वास्थ्य व दीर्घायु की कामना करता हूँ।

Dakhal News

Dakhal News 1 October 2020


bhopal, Scindia calls ,CBI special court

भोपाल। अयोध्या में छह दिसम्बर 1992 को ढहाए गए विवादित ढांचे के मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने बुधवार को अपना फैसला सुनाते हुए सभी 32 आरोपितों को बरी कर दिया। भाजपा के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सीबीआई की विशेष अदालत के फैसले को ऐतिहासिक बताया है।    दरअसल, ज्योतिरादित्य सिंधिया बुधवार को भोपाल एयरपोर्ट पहुंचे, जहां समर्थकों द्वारा उनका जोरदार स्वागत किया। इस अवसर पर उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा कि विवादित ढांचे को लेकर आए फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि न्यायालय ने ऐतिहासिक निर्णय दिया है। इतिहास को मद्देनजर रखते हुए यह निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि सत्य की जरूर जीत हुई है जैसा मैं सदैव कहता हूं सत्य परेशान हो सकता है, लेकिन पराजित नहीं हो सकता।

Dakhal News

Dakhal News 30 September 2020


ujjain,New education policy, important taking youth ,Dr. Mohan Yadav

उज्जैन। प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव ने बुधवार को उज्जैन में विक्रम विश्वविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में कहा कि नवीन शिक्षा नीति युवाओं को वैश्विक धरातल पर ऊंचाई तक ले जाने में महत्वपूर्ण है। उज्जयिनी प्राचीनकाल से शिक्षा का केन्द्र रही है। विक्रम विश्वविद्यालय को अपने संसाधनों के माध्यम से निरन्तर विकास करना चाहिये। शासन स्तर पर विकास में सहयोग मिलता रहेगा। उज्जैन न्यायप्रिय शासक विक्रमादित्य से जुड़ा है। यहां संसाधन भी बहुत हैं, उनका उपयोग होना चाहिये।    उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव ने कहा कि हमें प्राचीन नालन्दा, तक्षशिला विश्वविद्यालय को दृष्टिगत रख विकास पर कार्य करना चाहिये। उज्जैन में धार्मिक पर्यटन के साथ विज्ञान परियोजना को लेकर विज्ञान पर्यटन भी विकसित होना चाहिये। कार्यक्रम में विक्रम विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. अखिलेश कुमार पाण्डेय ने उच्च शिक्षा मंत्री को आश्वस्त किया कि विश्वविद्यालय के विकास में समस्त प्राध्यापक, अधिकारी, कर्मचारी निरन्तर प्रयास करेंगे। उन्होंने समस्त प्राध्यापकों को नवीन शिक्षा नीति-2020 लागू करने वाला प्रथम विश्वविद्यालय बनें, ऐसी परियोजना शोधकार्य सम्बन्धी पहल करें।   विश्वविद्यालय के नवागत कुलसचिव डॉ. यूएन शुक्ल ने कहा कि विश्वविद्यालय के समस्त प्राध्यापक, सेवक एवं विद्यार्थियों की समस्याओं का शीघ्र निवारण करने का प्रयास किया जायेगा। उन्होंने आश्वासन दिया कि उच्च शिक्षा मंत्री के मार्गदर्शन में विश्वविद्यालय निरन्तर विकास करेगा। कार्यक्रम में विक्रम विश्वविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त छात्रा मेहरान जाफरी को नगद पांच हजार रुपये की सम्मान राशि उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव के द्वारा प्रदान की गई। उच्च शिक्षा मंत्री डॉ.मोहन यादव ने बैठक के बाद परिसर में पीपल, बरगद एवं नीम के पौधों का रोपण किया।

Dakhal News

Dakhal News 30 September 2020


ashoknagar, Former MLA ,used revolve around, Kamal Nath, doing unethical work,Congress

अशोकनगर। अशोकनगर के पूर्व विधायक एवं संभावित भाजपा प्रत्याशी का जनता के बीच दोहरा चरित्र सर्व विदित है, एक तरफ कांग्रेस की साफ-सुथरी छवि की प्रत्याशी हैं तो दूसरी तरफ घोटाले, भ्रष्टाचार अनैतिक कार्य एवं विवादित दोहरे चरित्र के प्रत्याशी हैं। अशोकनगर के पूर्व विधायक कमलनाथ सरकार में फाइलें ले-लेकर चक्कर लगाया करते थे, उनके अनैतिक काम न होने पर आज वे कमलनाथ सरकार पर दोषा रोपण कर रहे हैं, इसका जवाब जनता उन्हें उप चुनाव में देने जा रही है।    यह बात कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता एवं अशोकनगर उप चुनाव के मीडिया समन्वयक शहरयार खान ने मंगलवार को एक पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कही।  कांग्रेस प्रवक्ता ने ज्योतिरादित्य सिंधिया का बिना नाम लिए उन भी आरोप लगाते हुए कहा कि उनके द्वारा लंबे समय से क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने के साथ गुना एवं अशोकनगर के दलितों को उपेक्षित रहने पर मजबूर किया।   अशोकनगर विधानसभा क्षेत्र में शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार के लिए कभी कोई साधन उपलब्ध नहीं कराये, बल्कि जो साधन यहां उपलब्ध होना थे उसमें अडंग़ा लगाया जाता रहा। जिस कारण से अशोकनगर विधानसभा क्षेत्र के लोग शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार के क्षेत्र में अभाव का जीवन यापन करने मजबूर हो रहे हैं।   आरोप लगाते हुए कहा कि अपने को जन सेवक कहने वाले सिंधिया के संरक्षण में अशोकनगर विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक एवं संभावित भाजपा प्रत्याशी (जिनकी जाति विवादित रही है) जिनको नगर पालिका अध्यक्ष बनाया। उनके द्वारा अपने नगरपालिका अध्यक्ष के कार्यकाल में लाखों के घोटाले किए और नगरपालिका की सम्पत्ति की अपने चहेतों को बंदरबाट कराई गई। एवं स्वयं इन जनसेवक जी द्वारा दलितों की उपेक्षा के कई प्रमाण मिलते हैं जिसका उदाहरण है कि पूर्व विधायक जो कि कई जातियों से चुनाव लड़ कर दलितों का हक छीनने का काम कर रहे हैं इसमें उन्हें पूर्ण रूप से शिव ज्योति एक्सप्रेस के मालिक का समर्थन मिलता रहा है एवं मिल रहा है। क्षेत्र में अशोक नगर के विकास को भी उपेक्षित करने के बहुत सारे प्रमाण हैं।   कांग्रेस बनायेगी असली स्मार्ट सिटी: दोहरे  वहीं इस मौके पर कांग्रेस प्रत्याशी आशा दोहरे ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह द्वारा अशोकनगर को स्मार्ट सिटी बनाये जाने को जुमला बताया, कहा कि मुख्यमंत्री का यह जुमला से अधिक कुछ नहीं है, अब कमलनाथ की सरकार आने पर हम अशोकनगर को बनवायेंगे असली स्मार्ट सिटी। साथ ही कांग्रेस प्रत्याशी ने कहा कि अशोक नगर के सर्वांगीण विकास दो महिलाओं एवं युवाओं के लिए खाद्य प्रसंस्करण ट्रेनिंग सेंटर (एफपीटीसी) की स्थापना,शाडोरा में महाविद्यालय की स्थापना, कृषि महाविद्यालय की जिला मुख्यालय पर स्थापना, पॉलिटेक्निक कॉलेज को इंजीनियरिंग कॉलेज में बदलना, अशोकनगर के समस्त ब्लॉक स्तर पर खाद्य बीज वितरण केंद्र की स्थापना, अस्पताल में वेंटिलेटर एवं ट्रामा सेंटर को सुचारू रूप से चालू करवानाअशोक नगर में कन्या महाविद्यालय की स्थापना कराई जावेगी।

Dakhal News

Dakhal News 29 September 2020


bhopal, Minister Mohan Yadav, fretting over, demand regularize, guest scholars

भोपाल। मध्य प्रदेश में अतिथि विद्वानों की नियमितीकरण का मामला एक बार फिर गर्मा गया है। कांग्रेस ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि प्रदेश में अलोकतांत्रिक तरीके से पीछे के रास्ते से सत्ता में आई भाजपा की शिव-ज्योति पैसेन्जर सरकार की कलई एक बार फिर खुल गई है। अतिथि विद्वानों को नियमित किए जाने के मामले में प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव ने एक लिखित उत्तर में यह माना है कि तत्कालीन कमलनाथ सरकार अतिथि विद्वानों को नियमित करने जा रही थी।   कांग्रेस नेता भूपेन्द्र गुप्ता ने मंगलवार को एक बयान जारी कर कहा कि प्रदेश के किसानों की कर्जमाफी और अतिथि विद्वानों के नियमितिकरण को लेकर भाजपा नेताओं और सरकार द्वारा फैलाए जा रहे भ्रम को उन्ही के द्वारा विधानसभा के पटल पर यह स्वीकार करना पड़ रहा है कि कमलनाथ सरकार किसान कर्जमाफी के साथ ही अतिथि विद्वानों को नियमित करने भी जा रही थी। लेकिन माफिया के सहयोग से सरकार गिरा दी गई। उन्होंने बताया कि विधानसभा में पूर्व मंत्री जीतू पटवारी द्वारा किए गए एक सवाल के जवाब में उत्तर देते हुए शिवराज सरकार ने यह माना है कि पूर्व उच्च शिक्षा मंत्री मंत्री जीतू पटवारी ने अतिथि विद्वानों को नियमित करने की प्रक्रिया शुरू कर दी थी। जिसको लेकर उन्होंने एक नोटशीट पर अतिथि विद्वानों के नियमितिकरण के लिए कैबिनेट में प्रस्ताव दिया था। जिस पर जल्द ही फैसला होने वाला था। लेकिन उससे पहले ही साजिश के तहत माफिया और गद्दारों के गठजोड़ ने अलोकतांत्रिक तरीके से कमलनाथ सरकार गिरा दी यह किसी से छुपा नहीं है।   भूपेन्द्र गुप्ता ने तंज कसते हुए कहा कि अपने नियमितिकरण की माँग को लेकर जब अतिथि विद्वान उच्च शिक्षा मंत्री के पास अपनी गुहार लेकर जाते है तो वह झल्ला कर आत्महत्या कर लेने के ताने देते रहे है। मुश्किलों से जीवन यापन करने वाले अतिथि विद्वानों की व्यथा सुनने की वजाय उच्च शिक्षा मंत्री अपना आपा खो कर एक आम आदमी की तरह व्यवहार कर रहे है जबकि वह एक संवैधानिक पद पर बैठे ऐसे विभाग के मंत्री है जिसके कर्मचारी अपनी नियमितिकरण की माँग करते हुए उनसे निवेदन कर रहे है। उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव का यह वक्तव्य कि क्या वह आत्महत्या कर ले यह संवैधानिक पद पर बैठे एक जन प्रतिनिधि को शोभा नहीं देता। जबकि महिला अतिथि विद्वानों को उनके सहायक अपमानित कर रहे है यह भी घोर निंदा का विषय है। आप किसी के घावों पर मरहम नहीं लगा सकते तो उस पर नमक मिर्ची तो मत लगाओ।   कांग्रेस कमेटी के मीडिया उपाध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को कमलनाथ सरकार से भय था कि पिछले 15 सालों के भाजपा शासन काल में किए गए भ्रष्ट्राचार, घोटालों का पर्दा धीरे-धीरे उठ रहा था। वही ज्योतिरादित्य सिंधिया भी कमलनाथ सरकार पर और दबाव नहीं बना पा रहे थे। इस दौरान सिंधिया पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को इसी का डर था कि कही पार्टी में रहते हुए उनके ही काले कारनामों को सरकार उजागर न कर दे। जिसके चलते शिवराज सिंह चौहान और ज्योतिरादित्य सिधिया ने साजिशन एक जन लोकप्रिय सरकार को जो कमलनाथ जी के नेतृत्व में चल रही थी इसे किसान कर्जमाफी और अतिथि विद्वानों के नियमितिकरण का झूठा मुद्दा बनाकर गिरा दिया।    भूपेन्द्र गुप्ता ने बताया कि कांग्रेस की कमलनाथ सरकार के उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने अतिथि विद्वानों को नियमित करने के लिए नए पद सृजित किए थे। जो अतिथि विद्वान फॉल इन ऑउट हुए थे उनके लिए यह पद सृजित किए गए थे और 950 पदों पर तत्काल चॉइस फिलिंग करवाकर उनको आवंटन पत्र जारी करने के निर्देश दे दिए थे। 9 मार्च 2020 को यह प्रक्रिया पूरी हो गई थी। जबकि कमलनाथ सरकार ने अतिथि विद्वानों के लिए 450 अतिरिक्त पद स्वीकृत किए थे। लेकिन अलोकतांत्रिक तरीके से सत्ता में आई भाजपा की शिवराज सरकार अतिथि विद्वानों को नियमितिकरण करने की वजाय उनके घावों पर नमक छिडक़ने का काम कर रही है।

Dakhal News

Dakhal News 29 September 2020


bhopal,Chief Minister ,Shivraj Singh Chauhan, interacted,Corona warriors

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को राजधानी भोपाल के मिंटो हाल में आयोजित कार्यक्रम में चिकित्सा क्षेत्र के कोरोना योद्धाओं को सम्मानित किया। इस अवसर पर उन्होंने कोविड-19 महामारी काल में योगदान देने वाले चिकित्सा क्षेत्र के कोरोना योद्धाओं से वीडियों कान्फ्रेंसिंग द्वारा संवाद भी किया।    भय दूर करना बड़ी चुनौती   मुख्यमंत्री ने सागर मेडिकल कॉलेज के सहायक प्राध्यापक मेडिसिन डॉ. मनीष जैन से बातचीत करते हुए पूछा, मनीष जी- कैसे हैं आप। कोरोना के शुरुआती दौर में आपके सामने सबसे बड़ी चुनौती कौन-सी थी। यह बातचीत बीच की है। डॉ. जैन ने मुख्यमंत्री को बताया कि टीम को मोटिवेट करना और भय दूर करना सबसे बड़ी चुनौती थी। इसके लिए हमारे सीनियर्स और मैंने स्वयं पहल और हिम्मत कर मरीजों के वार्ड में जाना शुरु किया। इससे टीम वर्क में काम शुरु हुआ। डॉ. जैन ने बताया कि मरीजों का मनोबल बनाए रखना भी बड़ी चुनौती थी। सामान्यत: दूसरी बीमारियों में परिजन मरीज के साथ बने रहते हैं, उसका मनोबल बढ़ाते हैं। इस बीमारी में मरीज अकेला था। अत: वीडियो कॉलिंग व्यवस्था आरंभ कर इस दिशा में प्रयास किया।   छह महीने से आइसोलेशन में हूँ   मुख्यमंत्री ने भिण्ड के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अजीत मिश्रा से पूछा कि घर वाले कोरोना से डरकर यह तो नहीं कहते कि छोड़ो-छाड़ो डॉक्टरी-कुछ और कर लेना। इस पर डॉ. मिश्रा ने बतया कि घर पर वृद्धजनों की बीमारी के प्रति संवेदनशीलता और उन्हें संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए मैंने स्वयं छ: माह से स्वयं को घर में आइसोलेट किया हुआ है। मुख्यमंत्री ने कहा कि ये समर्पण की अद्भुत मिसाल है। डॉ. मिश्रा ने बताया कि प्रवासी मजदूरों से संक्रमण फैलने की संभावना के समय आईआईटीटी रणनीति बहुत प्रभावशाली रही।   'जल्द ही जीतेंगे कोरोना से'   कुमारी अंशुल मिश्रा इन्दौर में एपीडिमियोलॉजिस्ट हैं। कोविड के आंकड़ों का विश्लेषण तथा राज्य व राष्ट्रीयस्तर पर रिपोर्टिंग की जिम्मेदारी उनकी है। मुख्यमंत्री ने कुमारी अंशुल से पूछा कि डाटा देखकर मन में क्या भाव आता है। अंशुल ने कहा कि अध्ययन के दौरान महामारियों के बारे में पड़ा अवश्य था, लेकिन  महामारी से डील करने का यह पहला अनुभव है। मुख्यमंत्री के यह पूछने पर कि अब क्या संकल्प है मन में। अंशुल ने कहा कि- 'जल्द ही जीतेंगे कोरोना से'।   हम बचेंगे तभी दूसरों को बचा पायेंगे   मरीज के सबसे अधिक निकट संपर्क में तो नर्सिंग स्टाफ ही आता है। ऐसे में कोरोना मरीजों के इलाज में डर नहीं लगा। मुख्यमंत्री ने यह बात इन्दौर की नर्स जयश्री कुलकर्णी से पूछी। जयश्री ने कहा कि पूरी सावधानी, हिम्मत और अपनी सकारात्मकता बनाये रखते हुए इलाज किया। हमें ही तो मरीजों का डर दूर करना था। जयश्री ने बताया कि योगा, प्रणायाम और पौष्टिक भोजन पर विशेष ध्यान रखा क्योंकि हम बचेंगे तभी दूसरों को बचा पायेंगे। इन्दौर की डाटा मैनेजर अपूर्वा तिवारी ने मुख्यमंत्री से कहा कि आपका कार्य महत्वपूर्ण है। इससे हमें आगे की रणनीति बनाने का आधार मिलता है।   एक दिन में किए 2900 टेस्ट   दीपक बाथम गजराराजा चिकित्सा महाविद्यालय में लैब अस्सिटेंट हैं। इन्होंने मुख्यमंत्र् को बताया कि पहले प्रतिदिन केवल 60-70 सेंपल टेस्ट कर पाते थे। अब दो हजार से बाइस सौ टेस्ट रोज हो रहे हैं। दीपक ने बताया कि उन्होंने अधिकतम एक दिन में 2900 टेस्ट किए हैं। मुख्यमंत्री ने दीपक से कहा कि आवश्यक सावधानियों का पालन जरूर करें।   लड़ाई लंबी है : मोर्चे पर डटे रहना जरूरी   गांधी मेडिकल कॉलेज भोपाल के डॉ. लोकेन्द्र दवे ने कोरोना योद्धाओं की ओर से उत्साहवर्धन के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का आभार माना। डॉ. दवे ने कहा कि शासन पर्याप्त संसाधन उपलब्ध करा रहा है उन्होंने मुख्यमंत्री को आश्वस्त किया कि सभी चिकित्सक और पैरामेडिकल स्टाफ समर्पित भाव से निरंतर कार्य करने के लिए प्रतिबद्ध और समर्पित है। डॉ. दवे ने कहा कि कोरोना के विरुद्ध लड़़ाई लम्बी जरूर है पर योजनाबद्ध तरीके से मोर्चे पर डटे रहने से जीत हासिल होगी। मानसिक रूप से मजबूत रहना और सभी सावधानियों जैसे मास्क, सोशल डिस्टेसिंग, सेनेटाईजेशन का सतत् व सतर्क उपयोग जरूरी है।   मुख्यमंत्री ने जबलपुर कलेक्टर कर्मवीर शर्मा तथा देवास जिला पंचायत सीईओ शीतला पटेल से भी बातचीत की। अपर मुख्य सचिव मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि प्रदेश का रिकवरी रेट 80 प्रतिशत हो गया है। कोरोना से पीडि़त होने के बाद स्वस्थ हुए व्यक्तियों की संख्या एक लाख से अधिक हो गई है। कार्यक्रम को चिकित्सा शिक्षा आयुक्त निशांत वरवड़े ने भी संबोधित किया। फेसबुक, यूट्यूब, वेबकास्ट तथा प्रमुख न्यूज चेनल्स पर कार्यक्रम का प्रसारण हुआ, जिससे लाखों की संख्या में लोग जुड़े।

Dakhal News

Dakhal News 28 September 2020


bhopal, Disputed statement, Cabinet Minister, Usha Thakur, told Congress ,anti-national

भोपाल। अपने विवादित बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाली शिवराज सरकार में कैबिनेट मंत्री उषा ठाकुर एक बार फिर चर्चा में है। कुछ दिनों पहले ही जय आदिवासी युवा संगठन (जयस) को देशद्रोही बताने वाली मंत्री उषा ठाकुर ने अब कांग्रेस को देशद्रोही बताया है। उन्होंने कहा कि ये वैचारिक युद्ध है, ये देशभक्त और देशद्रोहियों के बीच का निर्वाचन है।   प्रदेश की संस्कृति एवं पर्यावरण मंत्री और महू से विधायक उषा ठाकुर ने कांग्रेस के उम्मीदवारों की सूची आने के बाद सोमवार को विवादित बयान देते हुए कहा कि इस बार का उपचुनाव वैचारिक युद्ध की लड़ाई है, और इस बार की राजनीतिक जंग देशभक्त और देशद्रोहियों के बीच की जंग है। इसके अलावा मंत्री ऊषा ठाकुर ने भाजपा को छोडक़र कांग्रेस में शामिल हुई पूर्व विधायक पारुल साहू और कन्हैयालाल अग्रवाल को भी राष्ट्रद्रोही करार देते हुए कहा कि उन्हें विचार करना चाहिए था, भाजपा वैचारिक अनुष्ठान के लिए राजनीति करती है। मंत्री ठाकुर ने निशाना साधते हुए कहा कि जिन्हें राष्ट्रवादिता से प्रेम था वो भाजपा के साथ हैं, जो राष्ट्रवाद से विमुख हुए वो कांग्रेस के साथ हैं।   गौरतलब है कि एक सप्ताह पहले ही मंत्री ठाकुर ने जयस को देशद्रोही बताया था। जिसके बाद प्रदेश में जयस ने उषा ठाकुर के पुतले फूंके थे। इस पूरे मामले के 24 घंटे में ही उषा ठाकुर ने अपने बयान पर संगठन से माफी मांग ली थी।

Dakhal News

Dakhal News 28 September 2020


Satna, Former Leader of Opposition, demands high-level inquiry, into death , police custody

सतना /भोपाल। मप्र विधानसभा में पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने सतना जिले के सिंहपुर थाने में पुलिस कस्टडी में नारायणपुर निवासी राजपति कुशवाहा की गोली लगने से हुई मौत की उच्चस्तरीय जांच की मांग की है|   पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने जारी बयान में कहा है कि थाने के अंदर पुलिसकर्मी की सर्विस रिवॉल्वर से किसी व्यक्ति की मौत हो जाना बेहद गंभीर मामला है| इस मामले में जो भी दोषी हों उनके खिलाफ प्रकरण पंजीबद्ध कर कड़ीं से कड़ीं कार्यवाही होनी चाहिये। अजय सिंह ने सवाल उठाते हुए कहा कि एक ओर प्रदेश के मुख्यमंत्री सार्वजनिक मंचों पर प्रदेश में अपराध कम होने का दावा करते हुए अपनी पीठ थपथपाते हैं वहीं दूसरी ओर अपराधी तो दूर पुलिस के दामन पर ही दाग लग रहे हैं। अजय सिंह ने साफ कहा कि सिंहपुर घटना से पुलिस की भूमिका पर सवाल खड़े हो रहे हैं जिसकी उच्चस्तरीय जांच आवश्यक है। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही इस मामले में जो भी दोषी हों उन्हें बख्शा नहीं जाना चाहिए।

Dakhal News

Dakhal News 28 September 2020


bhopal, Corona recovery rate ,over 80 percent, MP, Chief Minister reviews

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं संक्रमण रोकने के लिये किये जा रहे कार्यों की राज्य-स्तरीय समीक्षा की। वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश के सभी जिला कलेक्टर्स से जिलेवार जानकारी ली जाकर कोरोना संक्रमण को रोकने के लिये गंभीरता से प्रयास करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोरोना रिकवरी रेट 80 प्रतिशत से अधिक हो गया है, लेकिन अभी भी सतत् प्रयास किये जाना जरूरी हैं। सभी कलेक्टर्स जिलों में कोरोना उपचार की व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करें।मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि जबलपुर, नरसिंहपुर, शहडोल, उमरिया, खरगौन एवं धार में विशेष एहतियात रखें। बैठक में इन जिलों में कोरोना की स्थिति की पृथक से समीक्षा हुई। उन्होंने जिलों में कोविड केयर सेंटर्स में रोगियों के दाखिल होने और स्वस्थ होकर डिस्चार्ज होने की अवधि की भी जानकारी प्राप्त की। उन्होंने फीवर क्लीनिक के कार्यों पर निरंतर निगाह रखने के निर्देश कलेक्टर्स को दिए।बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव मोहम्मद सुलेमान एवं मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव मनीष रस्तोगी भी उपस्थित थे।मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से होम आइसोलेशन के मरीजों को दी जाने वाली मेडिकल चिकित्सा सुविधाओं की जानकारी लीं। उन्होंने चिकित्सालय में बेड की उपलब्धता, ऑक्सीजन बेड की स्थिति एवं डॉक्टर्स की उपलब्धता की समीक्षा की। कलेक्टर ग्वालियर द्वारा बताया गया कि शासकीय चिकित्सालयों के अलावा प्रायवेट हॉस्पिटल बिरला, कल्याण एवं अपोलो हास्पिटल में भी कोरोना उपचार में अच्छी सेवाएँ दी जा रही हैं।अपर मुख्य सचिव मो. सुलेमान ने बताया कि ग्वालियर, नरसिंहपुर, सागर, होशंगाबाद, खरगौन, दमोह, झाबुआ, शहडोल, बैतूल, छिन्दवाड़ा, सतना, धार एवं इंदौर में कोविड प्रकरणों की विस्तृत समीक्षा की गई है। अधिकांश स्थानों पर रिकवरी रेट बढ़ा है। कोविड के संबंध में फीवर क्लीनिक बहुत अच्छा काम कर रहे हैं। अभी 23 हजार टेस्टिंग की का चुकी है। बैठक में आयुक्त ग्वालियर को मेडिकल कॉलेजो में डेली रिव्यू सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए।

Dakhal News

Dakhal News 27 September 2020


bhopal,I assure you, your honor, respect, place and pride,never diminish, Shivraj Singh Chauhan

भोपाल।  सामाजिक न्याय, गरीबों और पिछड़ों की भलाई भारतीय जनता पार्टी के लक्ष्य रहे हैं और यही लक्ष्य लोक समता पार्टी के भी रहे हैं। जब दोनों के लक्ष्य समान हैं, तो फिर रास्ते क्यों अलग होना चाहिए? मैं भारतीय जनता पार्टी में आप सभी का स्वागत करता हूं और आपको विश्वास दिलाता हूं कि आप सभी का मान, सम्मान, स्थान और शान कभी कम नहीं होंगे। यह बात मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने रविवार को मुख्यमंत्री निवास पर लोक समता पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं को भाजपा में शामिल करते हुए कही। अध्यक्ष डॉ. राजकुमार कुशवाहा के नेतृत्व में लोक समता पार्टी का भारतीय जनता पार्टी में विलय हुआ। सदस्यता ग्रहण समारोह में प्रदेश सरकार के मंत्री भारतसिंह कुशवाहा उपस्थित थे।   गरीबों, पिछड़ों के लिए काम कर रही प्रदेश सरकार मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने सदस्यताग्रहण समारोह में उपस्थित कार्यकर्ताओं, पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि मैं गरीबों, पिछड़ों का दर्द जानता हूं और इसीलिए सरकार बनते ही सबसे पहले इसी वर्ग की चिंता की। उन्होंने कहा कि सरकार धन्ना सेठों की नहीं है, बल्कि गरीबों और पिछड़ों की ही है। इसलिए हमने फसलों को हुए नुकसान की राहत राशि देने, फसल बीमा का पैसा देने, सस्ता अनाज देने की व्यवस्था की। हमने गरीबों और पिछड़ों के लिए बनाई गई संबल योजना को हमने दोबारा शुरू किया। उन्होंने कहा कि मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि इस वर्ग के कल्याण के लिए कोई कसर नहीं छोड़ूंगा। हमारे लिए जनता ही भगवान है और उसकी सेवा ही पूजा है। आने वाले समय में हम सब मिलकर जनता की सेवा करेंगे तथा विकास और कल्याण के लिए काम करेंगे।   नीतियों से प्रभावित होकर किया विलयसमारोह में संबोधित करते हुए लोक समता पार्टी के अध्यक्ष डॉ. राजकुमार कुशवाहा ने कहा कि हम अपने लक्ष्यों को लेकर पूरी मजबूती से चले, लेकिन उनकी प्राप्ति में बहुत समय लग रहा था। ऐसे में हमें भारतीय जनता पार्टी और मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की नीतियों ने प्रभावित किया और उन्हीं से प्रभावित होकर पार्टी ने विलय का निर्णय लिया है। डॉ. कुशवाहा ने कहा कि मैं सभी कार्यकर्ताओं की ओर से यह विश्वास दिलाता हूं कि आने वाले समय में हम इन्हीं नीतियों, योजनाओं और कार्यक्रमों को जनता के बीच प्रचारित-प्रसारित करने का काम करेंगे। इस अवसर पर लोक समता पार्टी के मुन्नालाल बघेल,  सुरेश कुशवाह, नारायण सिंह भदौरिया, अतुल शास्त्री, लल्जा राम सहित अन्य नेता व कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 27 September 2020


bhopal, Scindia afraid, touring alone, walks with CM, Sajjan Singh

भोपाल। मध्य प्रदेश में होने वाले विधानसभा उपचुनावों के लिए राजनीतिक दलों ने तैयारियां तेज कर दी है। राजनीतिक सभाओं और रैलियों का दौर जारी है। सीएम शिवराज और सिंधिया की जोड़ी लगातार उपचुनाव क्षेत्रों में पहुंचकर जनता से संपर्क कर रही हैं और घोषणाएं कर जनता को खुश करने में जुटे हैं। सीएम शिवराज और सिंधिया के साथ दौरों पर कांग्रेस ने तंज कसा है। पूर्व मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस विधायक सज्जन सिंह वर्मा ने सिंधिया पर बड़ा हमला बोला है। पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने सीएम शिवराज के साथ सिंधिया के अकेले दौरे पर बड़ा हमला बोला है। रविवार को मीडिया से बातचीत करते हुए सज्जन सिंह, सिंधिया पर जमकर बरसें और कहा कि अकेले दौरा करने से सिंधिया डरते हैं इसीलिए वे सीएम शिवराज के साथ चलते हैं। पूर्व मंत्री यही नहीं रुके उन्होंने सिंधिया का घेराव करते हुए कहा कि ग्वालियर से सिंधिया की जमीन खिसक गई, सिंधिया भूमाफिया है, कहीं कोई पत्थर न फेंक दे इसलिए डरते हैं।   वहीं इसके अलावा सीएम शिवराज सिंह के भूमिपूजन, शिलान्यास कार्यक्रमों पर हमला बोलते हुए कहा कि प्रदेश का खजाना खाली है लेकिन शिवराज सिंह की घोषणाएं और भूमिपूजन जारी हैं। पूर्व मंत्री वर्मा ने कहा कि राज्यसभा सांसद विवेक तनखा ने चुनाव आयुक्त से इसकी शिकायत की है।

Dakhal News

Dakhal News 27 September 2020


sagar,Elevated corridor, improve traffic system, Sagar district, Minister Bhupendra Singh

सागर। नागरिकों को मूलभूत सुविधाएं प्रदान करना ही स्मार्ट सिटी का दायित्व है।  सागर की अव्यवस्थित यातायात व्यवस्था को सुचारू बनाने के लिये प्रथम चरण में 96 करोड़ की लागत से चकरा घाट से तीन मढ़िया बस स्टेण्ड तक एलीवेटेड कोरिडोर बनाया जाएगा। साथ ही आवारा पशुओं एवं शहर में घूम रहे निजी डेरी मालिकों के पशुओं से निजात दिलाने के लिये शहर के चारों तरफ डेरी विस्थापन का कार्य शीघ्र प्रारंभ किया जायेगा। उक्‍त बातें नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने शनिवार को सागर में स्मार्ट सिटी के लगभग 100 करोड़  की लागत के कार्यों के भूमिपूजन के दौरान कही।    मंत्री सिंह ने कहा कि सागर स्मार्ट सिटी के अंतर्गत सागर को स्मार्ट बनाने के साथ-साथ मूलभूत सुविधाएं प्रदान करने के लिये 1600 करोड़ प्रस्तावित हैं, जिसमें 250 करोड़ के कार्यों का भूमि पूजन किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि आज सागर में 100 करोड़ के कार्यों का भूमिपूजन किया जा रहा है, जिनमें 13 किमी स्मार्ट कोरीडोर, विश्वविद्यालय रोड का पुनरूद्धार, रैन बसेरा का निर्माण, 48 कक्षों का स्मार्ट रूम में परिवर्तन, कामकाजी महिलाओं के लिये वर्किंग वूमेन हॉस्टल एवं इलेक्ट्रिक शव-दाह गृह शामिल हैं।  उन्होंने कहा कि 20 करोड़ की लागत से सर्वसुविधायुक्त स्टेडियम, राजघाट सहित अन्य स्थानों पर सर्वसुविधायुक्त पार्कों का निर्माण किया जायेगा।   मंत्री सिंह ने कहा कि आने वाले समय में शहर के प्राचीन भवनों को चिन्हित कर पीपीपी मोड पर उनका संरक्षण कर व्यावसायिक काम्पलेक्स बनाने, बस स्टेण्ड के पास स्थित विद्युत मण्डल के कार्यालय को अन्यत्र स्थापित कर बड़ा प्रोजेक्ट लगाने एवं शहर के बीचों-बीच स्थापित जेल को अन्यत्र कर पीपीपी मोड पर आवासीय एवं व्यावासिक काम्पलेक्स बनाने की योजना है। उन्होंने मुक्तिधाम के लिये 1 करोड़, मुख्यमंत्री अधोसंरचना कार्यों के लिये 5 करोड़, 30 सिटी बस चलाने, इंक्यूवेशन सेंटर के लिये 10 करोड़ रूपये एवं नगर निगम कार्यालय बनाने के लिये डीपीआर तैयार करने के निर्देश दिये।   सांसद राजबहादुर सिंह ठाकुर ने  कहा कि मंत्री सिंह की सोच बहुत अच्छी है। इससे सागर अवश्य विकास करेगा। विधायक शैलेन्द्र जैन ने कहा कि आज का दिन ऐतिहासिक है। आज से सागर के विकास की इबारत लिखी जायेगी। इस मौके पर स्थानीय जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे। 

Dakhal News

Dakhal News 26 September 2020


bhopal,Congress demands, remove Indore Collector , file case ,against CM Shivraj

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता एवं चुनाव आयोग कार्य प्रभारी जेपी धनोपिया ने शनिवार को मुख्य निर्वाचन आयुक्त भारत निर्वाचन आयोग को दो अलग अलग शिकायतें सौंपकर इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह को तत्काल स्थानांतरित किये जाने एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा ट्वीट को लेकर प्रकरण दर्ज किये जाने की मांग की है।   धनोपिया ने अपने पत्र में कहा है कि 25 सितम्बर, 2020 को भारत निर्वाचन आयोग द्वारा चुनावों की घोषणा कर दी गई है तथा स्पष्ट रूप से उल्लेखित किया है कि मध्यप्रदेश में होने वाले 28 विधानसभा क्षेत्रों के उप चुनाव के कार्यक्रम की घोषणा 29/9/2020 को की जाऐगी, चुनाव कार्यक्रम घोषित होना शेष है, ऐसी स्थिति में शासकीय अधिकारियों खासकर कलेक्टर्स की भूमिका निष्पक्ष होना शासकीय प्रक्रिया का एक अंग होता है, लेकिन खेद है कि इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के चहेते हैं, उनके द्वारा शासकीय कार्यक्रमों के नाम पर होने वाले चुनावी सभा सांवेर विधानसभा क्षेत्र में आज आयोजित है, उस कार्यक्रम में आमजनों को लाने-ले जाने के लिए करीब 600 बसों को आरटीओ द्वारा अधिग्रहित कराया गया और उन बसों में पेट्रोल-डीजल शासन द्वारा उपलब्ध कराए जाने के संबंध में आदेश पत्र जारी किया गया। जिसमें सांवेर क्षेत्र के लिए आसपास के 41 पेट्रोल पम्पस को आदेशित किया गया है कि उक्त अधिग्रहित की गई 600 बसें बिना भुगतान किए पेट्रोल/डीजल की पूर्ति की जाना है।    उन्होंने कहा है कि सांवेर विधानसभा क्षेत्र में शासकीय कार्यक्रम की आड़ में विशाल चुनावी आमसभा आयोजित की जा रही है, जिसमें भाजपा के उम्मीदवार सहित भाजपा नेताओं को उपकृत किया गया है। यह शासकीय धन का दुरुपयोग है। इसमें इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह की विशेष भूमिका है।    वहीं धनोपिया ने दूसरी शिकायत में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के ट्वीट को लेकर उनके खिलाफ प्रकरण दर्ज किये जाने की मांग की है। धनोपिया ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री जैसे पद पर पदस्थ रहते हुए शिवराजसिंह चौहान द्वारा चुनाव आयोग के दिशा निर्देशों का मजाक उड़ाया गया। उन्होंने ट्वीट किया है कि ‘मेरे प्रिय दोस्तों मध्यप्रदेश, बिहार, कर्नाटक सहित देश भर में कई जगह चुनाव होने वाले हैं। हमें कोरोना काल को देखते हुए चुनाव आयोग के दिशा निर्देशों का पूरा ध्यान रखना है, हाथ पूरी तरह सैनीटाइज कर साफ कर देना है’। धनोपिया ने इस ट्वीट को चुनाव आयोग का अपमान बताया है।    धनोपिया ने भारत निर्वाचन आयुक्त से मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी की ओर से निवेदन है कि निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों को तोड़ मरोडक़र मुख्यमंत्री चौहान द्वारा ट्वीट कर चुनाव आयुक्त की अवमानना की है, के संदर्भ में उनके विरूद्ध अपराधिक प्रकरण दर्ज कर कार्यवाही की जाना चाहिए, जिससे कि भारत निर्वाचन आयोग की भविष्य में कोई अन्य व्यक्ति अवमानना न कर सके। वहीं दूसरी शिकायत के आधार पर कलेक्टर मनीष सिंह को तत्काल पद से हटाया जाये, जिससे कि मध्यप्रदेश में होने वाले 28 विधान सभा के उप चुनाव निष्पक्ष एवं स्वतंत्र रूप से सम्पन्न हो सकेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 26 September 2020


raisen,Health Minister ,provided certificates , beneficiaries ,Chief Minister Kisan Kalyan Yojana

रायसेन। मध्यप्रदेश में गरीब कल्याण पखवाड़े के अंतर्गत मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा शनिवार को भोपाल से "मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना" के हितग्राही किसानों के बैंक खातों में सम्मान निधि की राशि अंतरित की गई और हितग्राही किसानों से सम्वाद किया गया। कलेक्ट्रेट कार्यालय स्थित एनआईसी कक्ष में स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, कलेक्टर उमाशंकर भार्गव तथा किसानों ने कार्यक्रम का सीधा प्रसारण देखा।   इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत पीएम किसान सम्मान निधि योजना के पात्र प्रदेश के 77 लाख कृषक परिवारों को चार हजार रुपये सम्मान निधि प्रति वर्ष दो समान किस्तों में मिलेगी। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा किसानों के हित में महत्वपूर्ण निर्णय लिए जा रहे हैं। पहले किसानों को जीरो प्रतिशत ब्याज दर पर फसल ऋण उपलब्ध कराने की योजना प्रारंभ की गई। फिर उनके खातों में गत वर्षो की फसल बीमा की राशि डाली गई। क्रेडिट कार्ड प्राप्त होने से बचे हुए प्रदेश के 67 हजार किसानों, पशुपालकों तथा मत्स्य पालकों को किसान क्रेडिट कार्ड वितरित किए गए।    स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी द्वारा हितग्राही किसान ग्राम धनोरा निवासी बाबूलाल जाटव, रतनपुर निवासी  मचल सिंह, विरहौली निवासी चिरोंजीलाल जाटव, ब्यावरा निवासी राजेश कुमार तथा बगरौदा निवासी  प्रकाशचंद को प्रमाण पत्र प्रदान किए गए। इस अवसर पर अपर कलेक्टर अनिल डामोर, एसएलआर  विजय सराकिया सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 26 September 2020


bhopal,Scindia met ,Finance Minister, Jagdish Deora , went to Kushalakeshm

भोपाल। वरिष्ठ भाजपा नेता और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया इन दिनों मप्र में है और चुनावी दौरों में व्यस्त है। इस बीच शुक्रवार को सिंधिया समय निकालकर वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा का हालचाल जानने उनके निवास पहुंचे। यहां उन्होंने मंत्री देवड़ा से उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछा और थोड़ी देर बार रवाना हो गए।   वित्त मन्त्री जगदीश देवड़ा से मुलाकात के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि जगदीश देवड़ा के स्वास्थ्य में बेहतर सुधार है। अब वे 99 प्रतिशत ठीक हो चुके है। मुझे पूरा विश्वास है वे जल्द ठीक होकर जनता की सेवा करेंगे। जगदीश देवड़ा की हाल ही में एंजियोप्लास्टी हुई है। मैं उनका कुशलक्षेम पूछने आया था। मुलाकात के बाद सिंधिया, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के साथ चुनावी दौरे पर रवाना हो गए। गौरतलब है कि मंत्री देवड़ा को हृदय संबंधित बीमारी के चलते पिछले दिनों दिल्ली के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वित्त मंत्री ने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी।

Dakhal News

Dakhal News 25 September 2020


bhopal, Agriculture Minister, wrote letter,Black Listed Society

भोपाल। मध्य प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल पर कांग्रेस ने बड़ा आरोप लगाया है। कांग्रेस का आरोप है कि हरदा में एक किसान सूरज द्वारा जहर पी लेने और आत्महत्या का प्रयास करने के मामले में कमल पटेल के भ्रष्ट अफसरों से रिश्ते सामने आ गए हैं। इस संबंध में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता कहा कहना है कि ब्लैक लिस्टेड चोपड़ा सोसाइटी को वापस सर्वे सूची में लाने के लिए कलेक्टर पर दबाव बनाने पत्र लिखा था। उन्होंने मंत्री के पत्रों की छाया प्रतियां जारी कर कहा है कि वे बतायें ये रिश्ता क्या कहलाता है?   कांग्रेस नेता भूपेन्द्र गुप्ता ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर अपने आरोपों में यह भी कहा है कि जिस भ्रष्ट अधिकारी ने किसानों की प्रताडऩा की और किसान आत्मघात के लिए मजबूर हुए, उस अधिकारी ने किसान के बाजू में खड़े होने के बावजूद उसे जहर पीने से नहीं रोका। ऐसे निर्दय अधिकारी के लिए भी कृषि कल्याण मंत्री कमल पटेल ने प्रशस्ति पत्र जारी किया था।   कांग्रेस नेता भूपेन्द्र गुप्ता ने कृषि मंत्री कमल पटेल से किसानों को लेकर सवाल पूछे है, जिसमें उन्होंने कहा कि ब्लैक लिस्टेड चोपड़ा समिति को ब्लैक लिस्ट की सूची से बाहर करने के लिए 14 अप्रैल 2020 को कमल पटेल ने कलेक्टर हरदा को पत्र क्यों लिखा? साथ ही उन्होंने यह भी पूछा है कि किसानों को प्रताडि़त करने के आरोपी असिस्टेंट रजिस्ट्रार अखिलेश चौहान को अगस्त 2020 में प्रशस्ति पत्र क्यों दिया? मंत्री कमल पटेल बताएं कि चोपड़ा की समिति के वरिष्ठ प्रबंधक को बचाने में उनके क्या स्वार्थ जुड़े हुए हैं? 100 से अधिक किसानों का चना का भुगतान बाकी क्यों है? भूपेंद्र गुप्ता ने कृषि मंत्री को बर्खास्त करने की करते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कृषि कल्याण मंत्री की आरोपियों के साथ सांठगांठ की जांच कराएं और ऐसे किसान विरोधी मंत्री को तत्काल बाहर का रास्ता दिखाएं।  

Dakhal News

Dakhal News 25 September 2020


bhopal, CM Shivraj salutes, 104th birth anniversary , Pandit Deendayal Upadhyay

भोपाल। एकात्म मानववाद और अंत्योदय दर्शन के प्रणेता पंडित दीनदयाल उपाध्याय की आज शुक्रवार को 104वीं जयंती है। वे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संगठनकर्ता और भारतीय जनसंघ के अध्यक्ष रहे। पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर आज देशभर में भाजपा कार्यकर्ता उनके व्यक्तित्व और कृतित्व को याद कर रहे हैं। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर उन्हें स्मरण कर नमन किया है।   मुख्यमंत्री शिवराज ने ट्वीट कर कहा है, ‘सबसे जरूरी है कि हम हमारी राष्ट्रीय पहचान के बारे में सोचें, जिसके बिना आजादी का कोई अर्थ नहीं होता- पं. दीनदयाल जी। प्रखर राष्ट्रवादी, जनसंघ के पूर्व अध्यक्ष और अंत्योदय व एकात्म मानववाद के प्रणेता, श्रद्धेय स्व. पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की जयंती पर उनके चरणों में कोटिश: नमन!'   एक अन्य ट्वीट कर शिवराज ने कहा है कि देश को 'एकात्म मानववाद' के रूप में पं. दीनदयाल उपाध्याय ने ऐसा श्रेष्ठ विचार दिया है, जिसमें अतीत से जुड़े रहते हुए भविष्य के समर्थ एवं सशक्त भारत का निर्माण संभव है। उनके विचारों के प्रकाश पथ पर चलकर जिस भारत का निर्माण होगा, उस पर प्रत्येक भारतीय को गर्व होगा। सरल एवं सहज व्यक्तित्व के धनी, मां भारती के सच्चे सेवक, पंडित दीनदयाल उपाध्याय अपने विचारों की एक ऐसी अखण्ड ज्योति छोड़कर गए हैं, जिसके प्रकाश में भारत की भावी पीढ़ियां सर्वदा आलोकित  होती रहेंगी। हमारे पथ प्रदर्शक, राष्ट्र के महान निर्माता के चरणों में सादर प्रणाम!

Dakhal News

Dakhal News 25 September 2020


bhopal, Agriculture Minister, wrote letter, Black Listed Society

भोपाल। एकात्म मानववाद और अंत्योदय दर्शन के प्रणेता पंडित दीनदयाल उपाध्याय की आज शुक्रवार को 104वीं जयंती है। वे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संगठनकर्ता और भारतीय जनसंघ के अध्यक्ष रहे। पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर आज देशभर में भाजपा कार्यकर्ता उनके व्यक्तित्व और कृतित्व को याद कर रहे हैं। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर उन्हें स्मरण कर नमन किया है।   मुख्यमंत्री शिवराज ने ट्वीट कर कहा है, ‘सबसे जरूरी है कि हम हमारी राष्ट्रीय पहचान के बारे में सोचें, जिसके बिना आजादी का कोई अर्थ नहीं होता- पं. दीनदयाल जी। प्रखर राष्ट्रवादी, जनसंघ के पूर्व अध्यक्ष और अंत्योदय व एकात्म मानववाद के प्रणेता, श्रद्धेय स्व. पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की जयंती पर उनके चरणों में कोटिश: नमन!'   एक अन्य ट्वीट कर शिवराज ने कहा है कि देश को 'एकात्म मानववाद' के रूप में पं. दीनदयाल उपाध्याय ने ऐसा श्रेष्ठ विचार दिया है, जिसमें अतीत से जुड़े रहते हुए भविष्य के समर्थ एवं सशक्त भारत का निर्माण संभव है। उनके विचारों के प्रकाश पथ पर चलकर जिस भारत का निर्माण होगा, उस पर प्रत्येक भारतीय को गर्व होगा। सरल एवं सहज व्यक्तित्व के धनी, मां भारती के सच्चे सेवक, पंडित दीनदयाल उपाध्याय अपने विचारों की एक ऐसी अखण्ड ज्योति छोड़कर गए हैं, जिसके प्रकाश में भारत की भावी पीढ़ियां सर्वदा आलोकित  होती रहेंगी। हमारे पथ प्रदर्शक, राष्ट्र के महान निर्माता के चरणों में सादर प्रणाम!

Dakhal News

Dakhal News 25 September 2020


gwalior, Sambal Yojana ,given huge support ,needy ,times of crisis, Imarti Devi

ग्वालियर। असहायों एवं गरीबों को संकट के समय सहारा देने के लिये प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री जन कल्याण (संबल) योजना चलाई जा रही है। हम सभी का दायित्व है कि कोई भी पात्र परिवार इस योजना से वंचित न रह जाए। यह बात प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने कही। इमरती देवी ने बुधवार को डबरा के कम्युनिटी हॉल में आयोजित हुए कार्यक्रम में संबल योजना के हितग्राहियों को अनुग्रह सहायता राशि के स्वीकृति पत्र वितरित कर रही थीं।    महिला-बाल विकास मंत्री ने इस अवसर पर डबरा ग्रामीण एवं नगर पालिका क्षेत्र के 14 हितग्राहियों को अनुग्रह राशि के स्वीकृति पत्र सौंपे। साथ ही सभी हितग्राहियों को भरोसा दिलाया कि सरकार की अन्य योजनाओं के तहत उन्हें लाभान्वित कराया जायेगा।    उन्होंने कहा संबल योजना के तहत पंजीकृत परिवार के मुखिया की सामान्य मृत्यु पर 2 लाख व दुर्घटना में मृत्यु होने पर 4 लाख रूपए की अनुग्रह राशि सीधे आश्रित सदस्य के खाते में पहुँचाई जाती है। ज्ञात हो गरीब कल्याण पखवाड़े के तहत प्रदेशव्यापी कार्यक्रम मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के मुख्य आतिथ्य में बुधवार को भोपाल के मिंटो हॉल में आयोजित किया गया। जिसमें मुख्यमंत्री श्री चौहान ने संबल योजना के तहत प्रदेश के 3 हजार 700 हितग्राहियों के खातों में 80 करोड़ रूपए की अनुग्रह राशि अंतरित की। जिला पंचायत के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. विजय दुबे ने इस अवसर पर जानकारी दी कि जनपद पंचायत डबरा के अंतर्गत विभिन्न ग्रामों में निवासरत संबल योजना के तहत 231 हितग्राहियों को अनुग्रह सहायता राशि प्रदान की जा चुकी है। इसी तरह नगर पालिका डबरा के अंतर्गत 103 हितग्राहियों को सहायता दी गई है। डबरा में आयोजित हुए कार्यक्रम में जिला पंचायत के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. विजय दुबे, मुख्य नगर पालिका अधिकारी डबरा प्रदीप भदौरिया एवं जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी कुलदीप श्रीवास्तव सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद थे। 

Dakhal News

Dakhal News 23 September 2020


indore,Saspa denied, merger with BJP, CM Shivraj tweeted

इंदौर। संपूर्ण समाज पार्टी (ससपा) के विभिन्न पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के भाजपा में शामिल होने के बाद भाजपा और ससपा के विलय की खबरों का पार्टी के पदाधिकारियों ने खंडन किया है। पार्टी के महासचिव ने बुधवार को एक बयान जारी कर कहा है कि भाजपा में शामिल होने वाले प्रदेश अध्यक्ष विजय सिकरवार और 3 जिलों के पदाधिकारियों ने पार्टी छोड़ी है।   गौरतलब है कि मंगलवार को ससपा के विजय सिंह सिकरवार व विभिन्न पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं भाजपा में शामिल हुए थे। सीएम शिवराज ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई थी। इसके बाद सीएम शिवराज ने ट्वीट कर जानकारी दी थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि आज सम्पूर्ण समाज पार्टी (ससपा) का भारतीय जनता पार्टी में विलय हुआ। ससपा के श्री विजय सिंह सिकरवार व विभिन्न पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को भाजपा की सदस्यता दिलाई। @BJPyMP परिवार का हिस्सा बने सभी साथियों का स्वागत करता हूं। हम सब पूरी निष्ठा और समर्पण से प्रदेश की सेवा करेंगे। मुझे विश्वास है कि आप सभी 'ससपा' के साथियों के सहयोग से अंत्योदय के लक्ष्य एवं प्रदेश की उन्नति व प्रगति के कार्यों को गति मिलेगी। हम सब मिलकर माननीय प्रधानमंत्री श्री @narendramodi जी के सपनों के #AatmaNirbharBharat एवं सशक्त भारत के निर्माण के ध्येय को पूरा करेंगे। बता दें कि 2018 के विधानसभा चुनाव में संपूर्ण समाज पार्टी ने अपने उम्मीदवार उतारे थे। पार्टी की बुनियाद आर्थिक आधार पर आरक्षण देने की मांग को लेकर पड़ी थी।  

Dakhal News

Dakhal News 23 September 2020


dhar, Case registered ,against Minister Dattigaon ,sharing objectionable post

धार। प्रदेश के औद्योगिक निवेश मंत्री राजवर्धन सिंह दत्तीगांव को लेकर फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट करने वाले एक व्यक्ति के विरुद्ध बदनावर थाने में बीती देर रात प्रकरण दर्ज किया गया है। आरोपित की अभी गिरफ्तारी नहीं हो पाई है।   जानकारी के अनुसार मंत्री दत्तीगांव के समर्थक विवेक पुत्र भरत लाल पाटीदार निवासी बदनावर ने एक आवेदन प्रस्तुत किया, जिसमें बताया गया कि इंदौर निवासी कांग्रेस कार्यकर्ता आरबी भदौरिया ने अपने फेसबुक पर औद्योगिक निवेश मंत्री राजवर्धन सिंह दत्तीगांव के विरुद्ध आपत्तिजनक पोस्ट शेयर की है। पाटीदार ने आवेदन के साथ मोबाइल के स्क्रीन शॉट की कॉपी भी लगाई है, जो जिला दंडाधिकारी के आदेश 19-08-2020 से दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के अंतर्गत सम्पूर्ण जिले में निषेधाज्ञा आदेश पारित किया गया है, उसका स्पष्ट उल्लंघन है। बदनावर पुलिस ने आरोपित भदौरिया के विरुद्ध धारा 188 भादवि की परिधि में आने से अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया है। मामले में आरोपित फरार है।

Dakhal News

Dakhal News 23 September 2020


bhopal, Jams of rain, begin in MP, Orange and Yellow alerts issued , many districts

भोपाल। मध्यप्रदेश में एक बार फिर बारिश का दौर शुरु हो गया है। बंगाल की खाड़ी में बने निम्नदाब के क्षेत्र के कारण प्रदेश के अधिकतर जिलों में बारिश हो रही है। मंगलवार सुबह से झाबुआ और भोपाल समेत कई जिलों में झमाझम बारिश का दौर जारी है। मौसम विभाग ने मंगलवार को कई जिलों में अति भारी और भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। विभाग ने आज एक साथ येलो और ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने 10 संभागों और करीब एक दर्जन जिलों में गरज चमक के साथ भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। इसी के चलते देर रात तवा डेम के 3 गेट खोल दिए गए है। वही अन्य बांधों के गेट खोलने की संभावना है। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बन गया है, जिसके चलते प्रदेश में तीन-चार दिन तक अच्छी बरसात होने की संभावना है। मंगलवार को रीवा, शहडोल, जबलपुर, सागर संभाग में कई स्थानों पर भारी वर्षा हो सकती है। इंदौर, उज्जैन, होशंगाबाद, भोपाल संभाग के जिलों में गरज-चमक के साथ तेज बौछारें पड़ सकती हैं। वही ग्वालियर चंबल संभाग में मंगलवार को मध्यम बारिश का दौर शुरू होने के आसार है। 23 सितंबर को ग्वालियर, मुरैना, भिंड, दतिया, शिवपुरी, श्योपुर, गुना, अशोकनगर में कहीं कहीं भारी बारिश भी हो सकती है। इसके प्रभाव से धीरे-धीरे बारिश की गतिविधियों में वृद्धि देखने को मिलेगी। मध्य प्रदेश के पूर्वी तथा मध्य क्षेत्रों में कम से कम 25 सितंबर तक कई जगहों पर मध्यम से भारी मॉनसूनी वर्षा होती रहेगी। 24 सितंबर के बाद आसमान साफ हो जाएगा। उसके बाद मानसून की विदाई की शुरुआत हो जाएगी।   तवा डेम के तीन गेट खोले इटारसी और आसपास के क्षेत्रों में देर रात फिर मॉनसून सक्रिय हो गया जिसके कारण बीती रात को दो बजे, तवाडेम के तीन गेटों को तीन-तीन फीट पर खोला गया है। हजार क्यूसेक पानी नर्मदा नदी में छोड़ा जा रहा, वहीं तवाडेम का जल स्तर 1,166 फीट है। बारिश हो जाने से जहां तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई जिससे लोगों को भीषण गर्मी और उमस से राहत मिली है, लेकिन इस बारिश ने किसानों की सोयाबीन और धान की फसल को लेकर चिंता बढ़ा दी है। तवा डेम के तीन गेटों से पानी छोड़े जाने के बाद नर्मदा नदी के जलस्तर में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। फिलहाल डेम का वॉटर लेवल 1,166 फीट पर है, वहीं एसडीओ ने बताया कि बारिश से डेम से एचईजी को बिजली बनाने के लिए 20 हजार क्यूसेक पानी दिया जा रहा है।   इन जिलों में अति भारी बारिश की चेतावनी (ऑरेंज अलर्ट)शहडोल संभाग के जिले,  विदिशा, बालाघाट, रायसेन जिलों में।इन जिलों में भारी बारिश की चेतावनी (येलो अलर्ट)सागर और होशंगाबाद संभाग के जिले, रीवा , सतना, सीहोर, राजगढ, अलीराजपुर, झाबुआ, धार, देवास, शाजापुर, अशोकनगर।   इन संभागों में कही गरज चमक के साथ बारिशरीवा, जबलपुर, शहडोल, भोपाल, उज्जैन, इंदौर, होशंगबाद,सागर, ग्वालियर और चंबल संभागों के जिलों में कहींं-कहींं।

Dakhal News

Dakhal News 22 September 2020


bhopal, Jams of rain, begin in MP, Orange and Yellow alerts issued , many districts

भोपाल। मध्यप्रदेश में एक बार फिर बारिश का दौर शुरु हो गया है। बंगाल की खाड़ी में बने निम्नदाब के क्षेत्र के कारण प्रदेश के अधिकतर जिलों में बारिश हो रही है। मंगलवार सुबह से झाबुआ और भोपाल समेत कई जिलों में झमाझम बारिश का दौर जारी है। मौसम विभाग ने मंगलवार को कई जिलों में अति भारी और भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। विभाग ने आज एक साथ येलो और ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने 10 संभागों और करीब एक दर्जन जिलों में गरज चमक के साथ भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। इसी के चलते देर रात तवा डेम के 3 गेट खोल दिए गए है। वही अन्य बांधों के गेट खोलने की संभावना है। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बन गया है, जिसके चलते प्रदेश में तीन-चार दिन तक अच्छी बरसात होने की संभावना है। मंगलवार को रीवा, शहडोल, जबलपुर, सागर संभाग में कई स्थानों पर भारी वर्षा हो सकती है। इंदौर, उज्जैन, होशंगाबाद, भोपाल संभाग के जिलों में गरज-चमक के साथ तेज बौछारें पड़ सकती हैं। वही ग्वालियर चंबल संभाग में मंगलवार को मध्यम बारिश का दौर शुरू होने के आसार है। 23 सितंबर को ग्वालियर, मुरैना, भिंड, दतिया, शिवपुरी, श्योपुर, गुना, अशोकनगर में कहीं कहीं भारी बारिश भी हो सकती है। इसके प्रभाव से धीरे-धीरे बारिश की गतिविधियों में वृद्धि देखने को मिलेगी। मध्य प्रदेश के पूर्वी तथा मध्य क्षेत्रों में कम से कम 25 सितंबर तक कई जगहों पर मध्यम से भारी मॉनसूनी वर्षा होती रहेगी। 24 सितंबर के बाद आसमान साफ हो जाएगा। उसके बाद मानसून की विदाई की शुरुआत हो जाएगी।   तवा डेम के तीन गेट खोले इटारसी और आसपास के क्षेत्रों में देर रात फिर मॉनसून सक्रिय हो गया जिसके कारण बीती रात को दो बजे, तवाडेम के तीन गेटों को तीन-तीन फीट पर खोला गया है। हजार क्यूसेक पानी नर्मदा नदी में छोड़ा जा रहा, वहीं तवाडेम का जल स्तर 1,166 फीट है। बारिश हो जाने से जहां तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई जिससे लोगों को भीषण गर्मी और उमस से राहत मिली है, लेकिन इस बारिश ने किसानों की सोयाबीन और धान की फसल को लेकर चिंता बढ़ा दी है। तवा डेम के तीन गेटों से पानी छोड़े जाने के बाद नर्मदा नदी के जलस्तर में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। फिलहाल डेम का वॉटर लेवल 1,166 फीट पर है, वहीं एसडीओ ने बताया कि बारिश से डेम से एचईजी को बिजली बनाने के लिए 20 हजार क्यूसेक पानी दिया जा रहा है।   इन जिलों में अति भारी बारिश की चेतावनी (ऑरेंज अलर्ट)शहडोल संभाग के जिले,  विदिशा, बालाघाट, रायसेन जिलों में।इन जिलों में भारी बारिश की चेतावनी (येलो अलर्ट)सागर और होशंगाबाद संभाग के जिले, रीवा , सतना, सीहोर, राजगढ, अलीराजपुर, झाबुआ, धार, देवास, शाजापुर, अशोकनगर।   इन संभागों में कही गरज चमक के साथ बारिशरीवा, जबलपुर, शहडोल, भोपाल, उज्जैन, इंदौर, होशंगबाद,सागर, ग्वालियर और चंबल संभागों के जिलों में कहींं-कहींं।

Dakhal News

Dakhal News 22 September 2020


bhopal, Expose lies, Shivraj government, apologize to farmers, Sachin Yadav

भोपाल। कमलनाथ सरकार में मंत्री रहे कांग्रेस विधायक सचिन यादव सरकार पर जमकर बरसे। उन्होंने मंगलवार को प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में एक पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए प्रदेश सरकार पर अनैतिक तरीके से सरकार के बनाने और किसान ऋण माफी को लेकर झूठ बोलने के आरोप लगाए। सचिन यादव ने कहा कि प्रदेश की 8 करोड़ जनता कि किस तरह प्रदेश में अनैतिक संसाधनों से बहुमत बनाकर बनी सरकार पहले दिन से ही किसान फसल ऋण माफी योजना को लेकर जनता के साथ झूठ बोल रही है। पहले यह कहा गया कि कोई कर्ज ही माफ नहीं किया गया। फिर कहा गया 2 लाख तक का माफ नहीं किया, फिर कहा गया 2 रुपये चार रुपये किया गया। फिर बोले 10 दिन में नहीं किया गया। लगातार झूठ बोलते बोलते जनता को गुमराह करने की सरकार कोशिश करती रही लेकिन सच तो किसान जानते थे।   सचिन यादव ने कहा कि कमलनाथ बार बार इसीलिये कहते थे उन्हें भाजपा के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं, जनता के सर्टिफिकेट की जरूरत है। आपको अच्छी तरह याद होगा कि प्रदेश के किसान कल्याण मंत्री कमल पटेल घोषणा करते रहे कि कमलनाथ सरकार ने किसानों के साथ धोखा किया झूठे ऋण माफी प्रमाण पत्र बांटे गए और यह भी कि कमल पटेल कमलनाथ जी के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कराएंगे। भाजपा के झूठ और मिथ्याचरण के खिलाफ जब कमलनाथ ने ग्वालियर की सभा में शंखनाद किया और शिवराज सिंह को खुली चुनौती दी कि एक मंच पर आकर शिवराज अपनी 15 साल की सरकार का हिसाब दें और मैं 15 महीने की सरकार का एक-एक दिन का हिसाब देने तैयार हूं। इस चुनौती के बाद फिर से शिवराज सिंह ने आगरा और सुवासरा की सभाओं में अपने नियमित झूठ को दोहराया।   सचिन यादव ने कहा कि सभी जानते हैं कि सत्य कभी पराजित नहीं होता भारत की चेतन संस्कृति में विश्वास करने वाले करोड़ों अरबों लोग जानते हैं और मानते हैं कि 'सत्यमेव जयते'। सत्य की जीत होती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की विधानसभा के ताजा सत्र में किसान कल्याण मंत्री कमल पटेल ने जो एफआईआर करने का दम भरते थे। खुद विधानसभा के पटल पर स्वीकार किया कि कमलनाथ जी की सरकार ने प्रथम चरण में 2023136 किसानों का 7108 करोड़ का कर्ज माफ किया दूसरे चरण में 672245 किसानों का 4538 करोड़ माफ करने की स्वीकृति दी गई एवं 590848 किसानों का 7492 करोड़ स्वीकृति हेतु शेष है। अब भाजपा सरकार ने अधिकृत रूप से कर्जमाफी को स्वीकार कर लिया है।   उन्होंने कहा कि लोग कितने झूठे हैं और राजनीति में झूठ के माध्यम से जनता में भ्रम फैलाने की कुटिल राजनीति करते हैं। सच को जानते हुए भी लगातार झूठ पर झूठ बोलते जाते हैं विधानसभा सभा के मानस पटल पर रखी गई, यह जानकारी इस बात की गवाह है। विगत 6 माह से बोला गया झूठ आज मंत्री कमल पटेल के मुंह से ही धूल चाट रहा है, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह एवं उनके नेता बार-बार यही कहते रहे हैं कि केवल जिन क्षेत्रों में उपचुनाव है वहीं- वहीं के ऋण माफ किए गए हैं। विधानसभा के पटल पर रखी गई जानकारी के अनुसार यह झूठ-2 भी बेनकाब हो गया। स्वयं सरकार और किसान कल्याण मंत्री ने विधानसभा में पूरे 51 जिलों की ऋण माफी की सूची भी जारी की है इससे यह स्पष्ट हो गया है कि भाजपा और उसके नेता जनता से सच बोलने से परहेज करते हैं। आपके संदर्भ के लिए विधानसभा में दिए गए उत्तरों की छाया प्रति हम आपको दे रहे हैं। जो यह सिद्ध करेंगे की छल से सरकार बनाने वाले अब छल और छद्म से सरकार बचाना चाहते हैं। जिसे शिवराज जी के कृषि कल्याण मंत्री ने ही बेनकाब कर दिया। प्रधानमंत्री किसान बीमा योजना के संबंध में भी सरकार सच सामने नहीं आने देना चाहती यह पोल भी केंद्र सरकार ने खोल ही दी है।   सचिन यादव ने आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा के 15 साल के शासन में 18 हजार किसानों ने आत्महत्या की थी, किसानों की छाती पर गोलियां दागीं गईं। कांग्रेस पार्टी फिर प्रदेश के किसानों को आश्वस्त करती है कि सरकार में वापिस आते ही शेष किसानों के कर्ज माफ कर दिये जायेंगे। किसानों के खिलाफ आ रहे अध्यादेशों को प्रदेश में बिना किसानों की सहमति लागू नहीं होने देगी। प्रदेश को सैकड़ों साल पुरानी जमींदारी की जकडऩ हम नहीं आने देंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस मांग करती है कि शेष किसानों का ऋण शिवराज सरकार माफ करे और समय सीमा भी बताये।

Dakhal News

Dakhal News 22 September 2020


mandsour, BJP gains power ,conspiring, people teach lesson, by-elections

मंदसौर। आगामी विधानसभा क्षेत्र के उपचुनाव निर्णायक भूमिका निर्वाह करेंगे एवं मतदाता प्रजातंत्र की हत्या करने वाले गद्दारों को सबक सिखाएंगे। उपचुनाव धर्म-अधर्म की लड़ाई है, प्रदेश की जनता ने कांग्रेस को बहुमत दिया था कमलनाथ सरकार ने कई ऐतिहासिक कदम उठाए थे, जिससे तिलमिलाकर भाजपा ने षडयंत्र पूर्वक चुनी हुई सरकार को गिराने में अग्रणी भूमिका निर्वाह की। सरकार के साथ गद्दारी करने वाले 25 विधायकों को भाजपा मैदान में उतार रहे हैं उन्हें जनता ही सबक सिखाएगी। उक्त उद्बोधन कंप्यूटर बाबा ने मंगलवार को मीडिया बातचीत में व्यक्त किए।   सुवासरा विधानसभा क्षेत्र के दो दिवसीय प्रवास पर आए कंप्यूटर बाबा ने मीडिया से बातचीत मेंं कहा कि संत समाज इस धर्म के खिलाफ है एवं प्रजातंत्र की हत्या करने वाले बागी विधायकों व भाजपा के खिलाफ प्रचार कर लोगों को इनके षडयंत्रों से अवगत करवा कर अपने मताधिकार के माध्यम से कड़ा जवाब देने का आह्वान करेंगे। उन्‍होंने कहा कि कमलनाथ सरकार ने अपने अल्प कार्यकाल में जन हितेषी कदम उठाए थे, जिससे उनकी लोकप्रियता बढ़ने लगी थी, यह देखकर भाजपा ने षड्यंत्र रच कर सरकार हथियाकर प्रजातंत्र का गला घोट दिया। लेकिन अब जनता ही उन्‍हें उप चुनाव में सबक सिखाएगी।

Dakhal News

Dakhal News 22 September 2020


bhopal, MP government, made several important ,decisions, Minister Patel

भोपाल। पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभाग राम खिलावन पटेल ने कहा कि प्रदेश में किसानों के हितों का संरक्षण राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसानों की आय दोगुनी हो सके इसके लिये राज्य सरकार ने किसान हित में अनेक महत्वपूर्ण फैसले लिये है। उक्‍त बातें राज्य मंत्री पटेल ने मंगलवार को भोपाल सेन्ट्रल कॉपरेटिव बैंक की न्यू मार्केट स्थित बैंक शाखा में ''सबको साख सबका विकास'' कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही।   राज्य मंत्री पटेल ने कहा कि किसानों को कृषि ऋण पर पहले 7 प्रतिशत ब्याज देना पड़ता था। किसानों को आर्थिक रूप से मजबूत करने के लिये राज्य सरकार ने किसानों के हित में महत्वपूर्ण फैसला लिया है। अब किसान को एक लाख रुपये का कृषि ऋण लेने पर मात्र 90 हजार रूपये ही लौटाने होते है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसानों को खेती के अलावा उससे जुड़ी गतिविधियों जैसे उद्यानिकी, पशुपालन और मत्स्य पालन जैसी गतिविधियों की और प्रोत्साहित किया जा रहा है।   उपायुक्त सहकारिता विनोद कुमार सिंह ने बताया कि भोपाल जिले में सहकारिता के क्षेत्र में प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्था के माध्यम से नवीन 1039 किसानों को 8 करोड़ 70 लाख रुपये की साख सीमा स्वीकृत की गई है। उन्होंने बताया कि जिले में अब तक 38 हजार 452 किसान क्रेडिट कार्ड जारी किये जा चके है। उपायुक्त सहकारिता ने बताया कि ''सबको साख सबका विकास'' कार्यक्रम का प्रसारण जिले की 7 कृषि शाखा, 34 प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्था, 75 उचित मूल्य की दुकानों पर भी किया गया। मुख्यमंत्री के राज्य स्तरीय कार्यक्रम को देखने के लिये जिले भर में करीब 15 हजार रजिस्ट्रेशन किये गये थे। कार्यक्रम में जनप्रतिनिधि सुमित पचौरी एवं प्रगतिशील किसान मौजूद रहे।

Dakhal News

Dakhal News 22 September 2020


gwalior,Hundreds of workers ,joined BJP ,front of former MLA

ग्वालियर।  पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल की मौजूदगी में वार्ड 56, 57 एवं 59 के युवाओं का जनसंवाद मां मनसा देवी मंदिर चन्द्रवदनी नाका पर हुआ। इस मौके पर पूर्व विधायक ने कहा कि जब-जब व्यवस्था परिवर्तन हुआ है उसमें युवा वर्ग की निर्णायक भूमिका रही है।   वर्तमान राजनीति में जनता के मुद्दे गौड़ होते जा रहे हैं, कुछ लोग आटे के कट्टे बांटकर रातों-रात गरीबों के मसीहा बन जाते हैं, जबकि हकीकत यह है कि आम जनता की जिंदगी में बदलाव, क्षेत्र की प्रगति एवं विकास व गरीब सर्वहारा वर्ग का जीवन स्तर ऊपर उठाने से ही संभव है। सोमवार को श्री गोयल ने युवाओं से भाजपा की रीति-नीति के अनुरूप युवाओं से कहा कि समझना होगा कि व्यक्ति से राष्ट्र बड़ा है। हमें देश की एकता और अखण्डता को मजबूत करने के लिए प्रेम शांति एवं भाईचारे एवं सद्भाव के रास्ते पर चलकर देश की एकता और अखण्डता को मजबूत करना होगा। इस मौके पर क्षेत्र के सैकड़ों युवा श्री गोयल के समक्ष भाजपा की सदस्यता ली। इस दौरान धीरेंद्र शर्मा, सुंदर लाल साहू, बालकिशन प्रजापति, केसी शर्मा, राजेश यादव, योगेश शर्मा, अमित शुक्ला, बंचू खान, अतुल पाल, अफरोज खान, दीपक रजक आदि उपस्थित रहे। 

Dakhal News

Dakhal News 21 September 2020


shivpuri, Saroj Jha, becomes District Vice President, Women

शिवपुरी। शिवपुरी महिला कांग्रेस पिछड़ा वर्ग में नई नियुक्तियों की गई हैं। महिला कांग्रेस पिछड़ा वर्ग जिलाध्यक्ष कु. शिवानी राठौर द्वारा सोमवार को अपनी कार्यकारिणी का विस्तार करते हुए सरोज झा को जिला उपाध्यक्ष महिला पिछड़ा वर्ग कांग्रेस नियुक्त किया गया। इसके साथ ही सुनीता राठौर को करैरा ब्लॉक अध्यक्ष महिला पिछड़ा वर्ग कांग्रेस की नियुक्ति दी गई।    इस अवसर पर शिवानी राठौर का क्षेत्र की महिलाओं ने स्वागत किया तथा आश्वासन दिया कि वह कांग्रेस की विचारधारा से सहमत हैं तथा सुनीता राठौर करेरा ब्लॉक अध्यक्ष एवं सरोज झा जिला उपाध्यक्ष के साथ पार्टी के विकास में सहयोग प्रदान करेंगी। इस अवसर पर अनेक महिला कार्यकर्ता उमा झा, विमला सेंन, उषा लोधी, सीमा पाल,अनीता लोधी, कस्तूरी पाल, कृषना लोधी, सरोज कारपेंटर को काग्रेस में सदस्यता दिलाई साथ ही कई काग्रेस महिला कार्यकर्ता उपस्थित रही। उपस्थित महिलाओं को संबोधित करते हुए शिवानी राठौर ने बताया कि हमें लोकतंत्र की रक्षा करने के लिए आगामी विधानसभा उपचुनाव में मध्य प्रदेश की सभी सीटों पर कांग्रेस को विजय दिलाने के लिए मेहनत करनी होगी।

Dakhal News

Dakhal News 21 September 2020


gwalior, Women should, become financially empowered, Imarti Devi

ग्वालियर। महिलाएं सरकारी योजनाओं का लाभ उठाकर खुद आर्थिक रूप से सशक्त बनें और अपनी बेटियों को भी आगे बढऩे के लिए प्रेरित करें। जब महिलाएं आर्थिक गतिविधियों की जिम्मेदारी अपने कंधों पर लेंगी तभी आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश और आत्मनिर्भर भारत का सपना साकार होगा। यह विचार प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने रविवार को गरीब कल्याण पखवाड़ा के तहत स्व सहायता समूहों को आर्थिक सहायता वितरित करने के लिए आयोजित कार्यक्रम में मौजूद महिलाओं को संबोधित करते हुए व्यक्त किये। इस अवसर पर उन्होंने स्व-सहायता समूहों से जुड़ीं महिलाओं को प्रतीक स्वरूप कैश क्रेडिट लिमिट के रूप में आर्थिक सहायता के चैक सौंपे।   जिले के 374 स्व-सहायता समूहों के खातों में कैश क्रेडिट लिमिट के रूप में 3 करोड़ 87 लाख रुपये की राशि विभिन्न बैंकों के माध्यम से पहुंचाई गई। राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत गठित इन समूहों से जिले की 3 हजार 740 ग्रामीण महिलाएं जुड़ी हैं। भोपाल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में आयोजित हुए स्व-सहायता समूहों के राज्यव्यापी कार्यक्रम के साथ ग्वालियर जिले में मुख्य कार्यक्रम डबरा के कम्युनिटी हॉल में मंत्री इमरती देवी के मुख्य आतिथ्य में हुआ। कार्यक्रम में खास तौर पर राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के स्व-सहायता समूहों से जुड़ीं महिलाओं ने सहभागिता की।   महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने कार्यक्रम में मौजूद महिलाओं का आह्वान करते हुए कहा कि बच्चे की पहली गुरु मां होती है। इसलिए महिलाएं अपनी बेटियों को सशक्त बनाएं। बालिकाओं की झिझक दूर कर उन्हें हर क्षेत्र में आगे बढऩे के लिए प्रेरित करें। प्रदेश सरकार भी महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए पूरी शिद्दत के साथ काम कर रही है। सरकार ने महिलाओं का प्रतिनिधित्व बढ़ाने के लिए सरकारी नौकरियों के साथ-साथ पंचायतराज संस्थाओं और नगरीय निकायों में पर्याप्त आरक्षण दिया है।   जिले की दीदियों ने भी सुना मुख्यमंत्री का संबोधन   मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में आयोजित हुए स्व-सहायता समूहों के राज्यव्यापी कार्यक्रम से प्रदेश भर के कार्यक्रमों में मौजूद महिलाओं को वर्चुअल संबोधित किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर एक क्लिक के जरिए 13 हजार स्व-सहायता समूहों से जुड़ी एक लाख 30 हजार से अधिक महिलाओं के खातों में लगभग 200 करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता कैश क्रेडिट लिमिट के रूप में पहुंचाई। डबरा के कार्यक्रम में स्व-सहायता समूहों से जुड़ीं दीदियों (महिलाओं) ने बड़ी एलईडी स्क्रीन से मुख्यमंत्री के कार्यक्रम को देखा और सुना भी। इसके अलावा जिले भर में लोगों ने फेसबुक लिंक के जरिए भी इस कार्यक्रम को देखा। मुख्यमंत्री ने वर्चुअल संवाद कर विभिन्न जिलों में स्व-सहायता समूहों से जुड़ीं महिलाओं की सफलता की दास्तां भी सुनीं और उनका उत्साहवर्धन भी किया।   मंत्री इमरती देवी ने इन समूह की महिलाओं को सौंपे चैक   कार्यक्रम में महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने प्रतीक स्वरूप विश्वहरी समूह समूदन, रानी लक्ष्मीबाई समूह छीमक व रानी लक्ष्मीबाई समूह मसूदपुर को सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की ओर से एक करोड़ 53 लाख रुपये का चैक सौंपा। इसी तरह उन्होंने मध्यप्रदेश ग्रामीण बैंक आंतरी की ओर से स्व-सहायता समूह सिद्ध बाबा भैंसनारी, धूमेश्वर विजयपुर व माँ शीतला समूह बरौल को 95 लाख, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की ओर से रानी लक्ष्मीबाई समूह जौरासी व कल्याणी तथा बैंक ऑफ इंडिया की ओर से रानी लक्ष्मीबाई समूह लिधौरा से जुड़ीं महिलाओं को एक - एक लाख रुपये के चैक कैश क्रेडिट लिमिट के रूप में प्रतीक स्वरूप सौंपे।    हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश / उमेद

Dakhal News

Dakhal News 20 September 2020


guna, Enumerated, achievement government, Scindia, Messiah of development

गुना। बमोरी उपचुनाव को लेकर भाजपा का चुनाव प्रचार जोरों पर है। इसमें भाजपा प्रदेश नेतृत्व और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के निर्देश पर बमोरी में लोकेंद्र सिंह राजपूत भी केबिनेट मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया के पक्ष में प्रचार में जुटे हैं। इसी के चलते वह बमोरी विधानसभा के एक दर्जन से ज्यादा गांव में रविवार को ग्रामीणों के बीच पहुंचे।जहां उन्होंने ग्रामीणों से चर्चा कर उनके हालचाल जाने।वहीं उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की योजनाओं के बारे में जानकारी दी।उन्होंने सांसद सिंधिया को विकास का मसीहा बताते हुए भाजपा के समर्थन में वोट मांगने के साथ ही संजू भैया को जिताने की अपील की।   किरार धाकड़ महासभा से जुड़े लोकेन्द्र सिंह राजपूत को बमोरी उपचुनाव में प्रभारी की जिम्मेदारी सौंपी गई है।वह बमोरी में लगातार जनसम्पर्क कर लोगों से मिलकर सरकार की योजनाओं की जानकारी दे रहे हैं।उन्होंने शिवराज सरकार की किसान हितेषी योजनाओं के साथ शिवराज और महाराज की जोड़ी को बमोरी के विकास की उड़ान भरने बाली जोड़ी करार दिया। उन्होंने कहा कि महाराज सिंधिया ने किसानों और आमजन की लड़ाई लड़ी।इसके लिए उन्होंने किसानों का विरोध करने बाले उनसे वादाखिलाफी करने बाले पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ से भी नाता तोड़ लिया।उन्होंने शिवराज को किसानों और आमजन की समस्या को दूर करने बाला मुख्यमंत्री बताया।    ग्रामीणों से कहा आपका वोट कराएगा बमोरी का विकास बमोरी से भाजपा के प्रभारी लोकेंद्र सिंह राजपूत ने रविवार को एक दर्जन से ज्यादा गांव का दौरा किया।जिनमें बरोदिया खुर्द,धाननखेड़ी, सुजाखेड़ी,बनेह,भौरा,झागर, बेरखेड़ी, कोन्तर आदि गांव शामिल हैं।इन गांव में पहुंचे राजपूत ने चौपाल लगाकर जनचर्चा की।इस दौरान ग्रामीणों ने उन्हें अपनी समस्याओं से अवगत कराया।जिसे उन्होंने जल्द ही दूर किये जाने का आश्वासन दिया।राजपूत ने कहा कि आप सभी को अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए मतदान करना है। 

Dakhal News

Dakhal News 20 September 2020


bhopal, Computer Baba, big announcement, campaign against BJP

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना के कहर के बीच इन दिनों चुनावी संग्राम भी छिड़ा हुआ है। कांग्रेस और भाजपा दोनों ही पार्टियां उपचुनाव की जमकर तैयारी कर रहीं हैं। वहीं मध्य प्रदेश की राजनीति में दखल रखने वाले पूर्व कैबिनेट मंत्री का दर्जा प्राप्त कम्प्यूटर बाबा भी उपचुनाव के सियासी मैदान में उतर गए हैं। एक बार फिर कम्प्यूटर बाबा ने भाजपा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।   कंप्यूटर बाबा ने विधानसभा उपचुनाव से पहले बड़ा ऐलान किया है। कंप्यूटर बाबा ने कहा कि वे संत समाज लोकतंत्र को बचाने के लिए मैदान में उतरेंगे। 22 सितंबर को मंदौर में भाजपा के खिलाफ प्रचार प्रसार करेंगे। बता दें कि भिंड में कंप्यूटर बाबा का प्रचार प्रसार खत्म होगा। वहीं सरकार के खिलाफ हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा ने लोकतंत्र की हत्या करके सरकार बनाई है। बड़े पैमाने में प्रदेश में रेत उत्खनन का काम चल रहा है। गौरतलब है कि इससे पहले जुलाई में भी कम्प्यूटर बाबा भाजपा के खिलाफ लोकतंत्र बचाओ यात्रा निकाल चुके हैं। जिसमें वे उन सभी विधानसभा सीटों पर पहुंचे थे, जहां चुनाव होना है। वहीं अब जब चुनाव नजदीक आ गए है तो एक बार फिर वे भाजपा के खिलाफ प्रचार की तैयारी में जुट गए है।  

Dakhal News

Dakhal News 20 September 2020


ujjain, Chief Minister, inaugurated ,newly constructed ICU

उज्जैन। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को उज्जैन प्रवास के दौरान शासकीय सिविल अस्पताल माधव नगर में नवनिर्मित कोविड-19 आईसीयू यूनिट का लोकार्पण किया। इसके बाद मुख्यमंत्री ने यूनिट का अवलोकन किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि नवनिर्मित आईसीयू यूनिट से कोविड मरीजों के उपचार में काफी सहुलियत मिलेगी। आमजन को भी इससे काफी सुविधा होगी। मुख्यमंत्री ने इस दौरान मौजूद समस्त डॉक्टर्स की टीम को कोरोना संक्रमण के दौरान निरन्तर ड्यूटी करते हुए आमजन की सेवा करने पर बधाई दी। उन्होंने कहा कि हमारे डॉक्टर्स बहुत अच्छा काम कर रहे हैं। आगे भी इसी जज्बे के साथ वे काम करते रहें। निश्चित रूप से हम इस महामारी को हराने में सफल अवश्य होंगे।   मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. महावीर खंडेलवाल ने मुख्यमंत्री को जानकारी दी कि कोरोना संक्रमण के निरन्तर बढ़ते हुए प्रकरणों को ध्यान में रखते हुए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन द्वारा मात्र 45 दिनों में दिन-रात चौबीस घंटे कड़ी मेहनत से माधव नगर अस्पताल में आईसीयू युनिट का निर्माण किया गया है, ताकि कोविड-19 के मरीजों को सहुलियत हो सके। जानकारी दी गई कि यह वार्ड 155.78 लाख रुपये की लागत से निर्मित किया गया है। इस वार्ड में 20 बेड और 10 वेंटिलेटर लगाये गये हैं। साथ ही यह वार्ड अत्याधुनिक मशीनों से लैस है। इसमें ऑक्सीजन और एयर वाल्व हैं। यहां की फ्लोरिंग शॉकप्रूफ की गई है तथा इस वार्ड में एक निगेटिव प्रेशर वाल्व भी सीलिंग में लगाया गया है, जिस वजह से कोरोना एवं अन्य वायरस तुरन्त वाल्व द्वारा सोख लिये जाकर एक कंटेनर में संग्रहित होते रहते हैं, जिस वजह से आईसीयू वार्ड के बाहर संक्रमण का खतरा काफी हद तक कम हो गया है।   उन्होंने बताया कि इस वार्ड में चौबीस घंटे डॉक्टर्स और ट्रेनिंग डॉक्टर्स ड्यूटी पर तैनात रहेंगे। कोविड-19 के गंभीर मरीजों को अब नवनिर्मित आईसीयू के कारण उपचार माधव नगर अस्पताल में ही दिया जा सकेगा तथा उन्हें अन्यत्र कहीं रैफर करने की नौबत नहीं आयेगी। कोरोना अवधि के बाद आने वाले समय में माधव नगर अस्पताल को एक बढिय़ा रेस्पिरेटरी सेन्टर के रूप में विकसित किये जाने की भी योजना है।   इस दौरान जानकारी दी गई कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन द्वारा पूरे प्रदेश में ऐसे 50 आईसीयू युनिट बनाये जा रहे हैं, ताकि कोविड-19 से संक्रमित लोगों का बेहतर उपचार हो सके।

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2020


raisen, Farmers breadwinners, government always stands ,Health Minister Chaudhary

रायसेन। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने फसल बीमा भुगतान कार्यक्रम में शुक्रवार को प्रदेश के 22 लाख से अधिक किसानों के खातों में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना खरीफ 2019 के अंतर्गत फसल बीमा दावे की कुल राशि 4 हजार 688 करोड़ 83 लाख रु का ई-अंतरण के माध्यम से भुगतान किया। रायसेन में कलेक्ट्रेट में स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर प्रभुराम चौधरी ने कार्यक्रम का सीधा प्रसारण देखा। उन्होंने लाभान्वित किसानों को प्रपत्र भी वितरित किए।   इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री चौहान के नेतृत्व में प्रदेश सरकार किसानों के कल्याण और विकास के लिए सदैव तत्पर है। आज मुख्यमंत्री ने रायसेन जिले के 84 हजार किसानों के खाते में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना खरीफ 2019 के अंतर्गत फसल बीमा दावे के 70 करोड़ रुपये से अधिक राशि का ऑनलाईन भुगतान किया है। उन्होंने कहा कि किसान हमारे अन्नदाता हैं और सरकार किसानों के हर दुख-सुख में साथ खड़ी है।   स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार का लक्ष्य है किसानों की आमदनी को जल्दी से जल्दी दोगुना करना। इसके लिए न केवल किसानों को खेती-किसानी के लिए हरसंभव सहायता दी जा रही है, अपितु उनकी फसलों को हुए नुकसान की भी अधिकतम भरपाई सरकार कर रही है। किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर फसल ऋण दिया जा रहा है। किसानों को उनकी फसल का अधिक से अधिक मूल्य मिल सके, इसके लिए मण्डी अधिनियम में संशोधन किए गए हैं तथा उनकी फसलों के विपणन की भी अच्छी व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा खरीफ 2018 एवं रबी 2018-19 की फसल बीमा के प्रीमियम की बकाया राशि 22 सौ करोड़ भरे जाकर किसानों को 2981.24 करोड़ रुपये की बीमा दावा राशि दिलवाई गई है। इस अवसर पर कलेक्टर उमाशंकर भार्गव, जिला भाजपा अध्यक्ष डॉ जयप्रकाश किरार, जिला पंचायत सीईओ पीसी शर्मा, कृषि उप संचालक एनपी सुमन सहित अन्य अधिकारी एवं लाभान्वित किसान उपस्थित थे।   स्वास्थ्य मंत्री ने किसानों को वितरित किए प्रपत्र   स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी ने ग्राम चांदनगोड़ा के किसान लखन सिंह जाट, ग्राम कोटरा निवासी नरेश कुमार, गुंडरई निवासी दर्शन सिंह, सनखेड़ी निवासी किसान धन सिंह तथा मेहगांव निवासी किसान धीरेन्द्र सिंह बघेल तथा जीवन सिंह बघेल को प्रपत्र प्रदान किए। इन किसानों ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को धन्यवाद देते हुए कहा कि फसल बीमा की दावा राशि मिलने से उन्हें बहुत राहत मिली हैं।

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2020


bhopal, Kamal Nath ,insulted mandate ,salable state, Vishnudutta Sharma

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के उस बयान पर गंभीर आपत्ति व्यक्त की है जिसमें उन्होंने प्रदेश को बिकाऊ प्रदेश कहा है। उन्होंने कहा है कि यह जनादेश का अपमान है और इसे सहन नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि जनता के साथ कांग्रेस की 15 महीने की सरकार ने लगातार गद्दारी की है। इसलिए ग्वालियर चंबल की जनता अपनी खुद्दारी के दम पर कमलनाथ एंड कंपनी को करारा जवाब देगी। शर्मा ने यह बात शुक्रवार को मीडिया से चर्चा के दौरान कही।कमलनाथ सरकार के रवैये से नाराज थे विधायक, इसलिए दिया इस्तीफाशर्मा ने कहा कि कांग्रेस ने जिस वचनपत्र के आधार पर चुनाव लड़ा था, कमलनाथ सरकार उस पर अमल नहीं कर रही थी और प्रदेश के किसानों, नौजवानों, गरीब जनता से छल कर रही थी। सिंधिया जी और उनके साथी विधायकों ने जब मुख्यमंत्री से वचनपत्र पर अमल करने और वादे निभाने की बात कही, तो तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ ने उनकी बात नहीं सुनी और सड़क पर उतरने की चुनौती दे दी। इन विधायकों ने प्रदेश की जनता को धोखाधड़ी और छल से बचाने के लिए इस्तीफा दिया। शर्मा ने कहा कि कांग्रेस सरकार में मंत्री रहे गोविन्द सिंह ने कहा था कि सरकार भ्रष्टाचार में आकंठ डूबी है और पैसा उपर तक जाता है। मंत्री उमंग सिंगार ने कहा था कि कैबिनेट निर्णय नहीं करती, निर्णय तो दिग्विजय सिंह पर्दे के पीछे से कराते हैं। इससे स्पष्ट है कि कांग्रेस के अपने ही लोगों में सरकार के रवैये के प्रति असंतोष था और इसी वजह से वह सरकार गिरी है।सफेद झूठ मत बोलो कमलनाथ, जनता सब जानती हैशर्मा ने कहा कि कांग्रेस की झूठमंडली ने प्रदेश में झूठ बोलकर सरकार बनाई थी। कमलनाथ, दिग्विजय सिंह के इशारे पर ही झूठ बोलते हैं। उन्होंने आज ग्वालियर में फिर एक सफेद झूठ बोला कि किसानों के फसल बीमा की 2200 करोड़ रूपए की प्रीमियम हमने जमा कराई थी।  शर्मा ने कहा कि इतना सफेद झूठ मत बोलो कमलनाथ जी, जनता मूर्ख नहीं है, वो सब जानती है। उन्होंने कहा कि ग्वालियर की जनता ने आज जो नारेबाजी की है, उससे आपको आइना दिखा दिया है। आपने जनता से चोरी करके जो वोट पाया, उसी के चलते ग्वालियर की जनता आज कमलनाथ चोर है के नारे लगा रही है। आपको ग्वालियर आने का कोई हक ही नहीं है। जब आप मुख्यमंत्री रहे, कभी ग्वालियर की जनता की सुध नहीं ली। ग्वालियर के विकास में एक रुपया कभी नहीं लगाया। चंबल एक्सप्रेस वे को ब्रेक कर दिया गया था। जेएएच हॉस्पिटल के काम को रोक दिया। सौभाग्य से सिंधियाजी ने कदम उठाया और भाजपा की सरकार बन गई। जिसके बाद चंबल प्रोगेस वे का काम आगे बढ़ा। शर्मा ने कहा कि जिस तरह पिछले 15 वर्षों में  शिवराजसिंह चौहान ने चंबल को डकैतों से मुक्त कराकर विकास किया था, उसी तरह अब फिर से ग्वालियर में विकास के कार्य प्रारंभ कर दिए गए हैं।कमलनाथ सरकार ने नहीं भरी प्रीमियम, भाजपा सरकार ने दिलाया पैसाशर्मा ने कहा कि आज भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने प्रदेश के किसानों को बड़ी सौगात दी है। 22 लाख 51 हजार किसानों को मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने उज्जैन से 4688 करोड़ रूपए की फसल बीमा राशि सिंगल क्लिक के माध्यम से किसानों के खातों में डाली है। यह ऐतिहासिक कदम है। इसके लिए मैं लाखों किसानों को बधाई और शुभकामनाएं देता हूं। शर्मा ने कहा कि सोयाबीन की भावांतर की राशि 470 करोड़ रूपए भी कमलनाथ सरकार ने नहीं दी। आज मुख्यमंत्री ने घोषणा की है कि वे उस राशि को भी किसानों के खातों में डालेंगे। शर्मा ने कहा कि वर्ष 2018-19 की खरीफ की फसल की प्रीमियम के बकाया 2200 करोड़ रूपए कांग्रेस सरकार ने नहीं भरे थे, जिसे शिवराज जी की सरकार ने जमा किया। इसके फलस्वरूप 2981 करोड़ रूपए की बीमा राशि किसानों को मिल चुकी है।देश के गद्दार और लोकतंत्र की हत्या के आरोपी हैं कमलनाथ शर्मा ने कहा कि कमलनाथ जब केंद्र में कॉमर्स मिनिस्टर थे, तब उन्होंने चीन के साथ मिलकर खेल खेला था और उससे गांधी परिवार को लाभान्वित किया। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष  जेपी नड्डा जी ने कमलनाथ से पूछा था कि आप चीन के दलाल हैं, देश के गद्दार हैं, आपको इसका जवाब देना होगा। शर्मा ने कहा कि इंदिरा जी ने देश में आपातकाल लगाकर लोकतंत्र की हत्या की थी। कमलनाथ भी लोकतंत्र की हत्या करने वाली उस मंडली के एक प्रमुख सदस्य रहे हैं।

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2020


bhopal, Kamal Nath ,insulted mandate ,salable state, Vishnudutta Sharma

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के उस बयान पर गंभीर आपत्ति व्यक्त की है जिसमें उन्होंने प्रदेश को बिकाऊ प्रदेश कहा है। उन्होंने कहा है कि यह जनादेश का अपमान है और इसे सहन नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि जनता के साथ कांग्रेस की 15 महीने की सरकार ने लगातार गद्दारी की है। इसलिए ग्वालियर चंबल की जनता अपनी खुद्दारी के दम पर कमलनाथ एंड कंपनी को करारा जवाब देगी। शर्मा ने यह बात शुक्रवार को मीडिया से चर्चा के दौरान कही।कमलनाथ सरकार के रवैये से नाराज थे विधायक, इसलिए दिया इस्तीफाशर्मा ने कहा कि कांग्रेस ने जिस वचनपत्र के आधार पर चुनाव लड़ा था, कमलनाथ सरकार उस पर अमल नहीं कर रही थी और प्रदेश के किसानों, नौजवानों, गरीब जनता से छल कर रही थी। सिंधिया जी और उनके साथी विधायकों ने जब मुख्यमंत्री से वचनपत्र पर अमल करने और वादे निभाने की बात कही, तो तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ ने उनकी बात नहीं सुनी और सड़क पर उतरने की चुनौती दे दी। इन विधायकों ने प्रदेश की जनता को धोखाधड़ी और छल से बचाने के लिए इस्तीफा दिया। शर्मा ने कहा कि कांग्रेस सरकार में मंत्री रहे गोविन्द सिंह ने कहा था कि सरकार भ्रष्टाचार में आकंठ डूबी है और पैसा उपर तक जाता है। मंत्री उमंग सिंगार ने कहा था कि कैबिनेट निर्णय नहीं करती, निर्णय तो दिग्विजय सिंह पर्दे के पीछे से कराते हैं। इससे स्पष्ट है कि कांग्रेस के अपने ही लोगों में सरकार के रवैये के प्रति असंतोष था और इसी वजह से वह सरकार गिरी है।सफेद झूठ मत बोलो कमलनाथ, जनता सब जानती हैशर्मा ने कहा कि कांग्रेस की झूठमंडली ने प्रदेश में झूठ बोलकर सरकार बनाई थी। कमलनाथ, दिग्विजय सिंह के इशारे पर ही झूठ बोलते हैं। उन्होंने आज ग्वालियर में फिर एक सफेद झूठ बोला कि किसानों के फसल बीमा की 2200 करोड़ रूपए की प्रीमियम हमने जमा कराई थी।  शर्मा ने कहा कि इतना सफेद झूठ मत बोलो कमलनाथ जी, जनता मूर्ख नहीं है, वो सब जानती है। उन्होंने कहा कि ग्वालियर की जनता ने आज जो नारेबाजी की है, उससे आपको आइना दिखा दिया है। आपने जनता से चोरी करके जो वोट पाया, उसी के चलते ग्वालियर की जनता आज कमलनाथ चोर है के नारे लगा रही है। आपको ग्वालियर आने का कोई हक ही नहीं है। जब आप मुख्यमंत्री रहे, कभी ग्वालियर की जनता की सुध नहीं ली। ग्वालियर के विकास में एक रुपया कभी नहीं लगाया। चंबल एक्सप्रेस वे को ब्रेक कर दिया गया था। जेएएच हॉस्पिटल के काम को रोक दिया। सौभाग्य से सिंधियाजी ने कदम उठाया और भाजपा की सरकार बन गई। जिसके बाद चंबल प्रोगेस वे का काम आगे बढ़ा। शर्मा ने कहा कि जिस तरह पिछले 15 वर्षों में  शिवराजसिंह चौहान ने चंबल को डकैतों से मुक्त कराकर विकास किया था, उसी तरह अब फिर से ग्वालियर में विकास के कार्य प्रारंभ कर दिए गए हैं।कमलनाथ सरकार ने नहीं भरी प्रीमियम, भाजपा सरकार ने दिलाया पैसाशर्मा ने कहा कि आज भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने प्रदेश के किसानों को बड़ी सौगात दी है। 22 लाख 51 हजार किसानों को मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने उज्जैन से 4688 करोड़ रूपए की फसल बीमा राशि सिंगल क्लिक के माध्यम से किसानों के खातों में डाली है। यह ऐतिहासिक कदम है। इसके लिए मैं लाखों किसानों को बधाई और शुभकामनाएं देता हूं। शर्मा ने कहा कि सोयाबीन की भावांतर की राशि 470 करोड़ रूपए भी कमलनाथ सरकार ने नहीं दी। आज मुख्यमंत्री ने घोषणा की है कि वे उस राशि को भी किसानों के खातों में डालेंगे। शर्मा ने कहा कि वर्ष 2018-19 की खरीफ की फसल की प्रीमियम के बकाया 2200 करोड़ रूपए कांग्रेस सरकार ने नहीं भरे थे, जिसे शिवराज जी की सरकार ने जमा किया। इसके फलस्वरूप 2981 करोड़ रूपए की बीमा राशि किसानों को मिल चुकी है।देश के गद्दार और लोकतंत्र की हत्या के आरोपी हैं कमलनाथ शर्मा ने कहा कि कमलनाथ जब केंद्र में कॉमर्स मिनिस्टर थे, तब उन्होंने चीन के साथ मिलकर खेल खेला था और उससे गांधी परिवार को लाभान्वित किया। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष  जेपी नड्डा जी ने कमलनाथ से पूछा था कि आप चीन के दलाल हैं, देश के गद्दार हैं, आपको इसका जवाब देना होगा। शर्मा ने कहा कि इंदिरा जी ने देश में आपातकाल लगाकर लोकतंत्र की हत्या की थी। कमलनाथ भी लोकतंत्र की हत्या करने वाली उस मंडली के एक प्रमुख सदस्य रहे हैं।

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2020


bhopal, Senior BJP leader , former minister ,Ramakant Tiwari ,passed away

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मंत्री और भाजपा के चार बार विधायक रह चुके रमाकांत तिवारी (80 वर्ष) का गुरुवार की शाम निधन हो गया। वे लंबे समय से बीमार थे और रीवा जिले के चाकघाट स्थित अपने निजी आवास पर आखिरी सांस ली। उनके घर मेंं दो बेटे और तीन बेटियां हैं। उनके निधन की खबर मिलते ही उनके क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई। मुख्यमंत्री ने उनके निधन पर दुख व्यक्त किया है।   बता दें कि त्योंथर के पूर्व भाजपा विधायक रमाकांत तिवारी चार बार विधायक बने और मंत्री का पद भी संभाल चुके हैं। साल 2003 में उमा भारती की सरकार में उन्हें पशुपालन मंत्री का पद दिया गया था। साल 2013 में तिवारी आखिरी बार त्योंथर विधानसभा सीट से विधायक बने थे। यह चौथा मौका था जब रमाकांत विधायक बने थे। तब रमाकांत तिवारी ने ब्राह्माण बहुल सीट पर कांग्रेस के रमाशंकर सिंह को हराया था।   पूर्व मंत्री के निधन पर प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि, परिवार के वरिष्ठ सदस्य, पूर्व मंत्री श्री रमाकांत तिवारी जी के निधन के समाचार को सुनकर अत्यंत दु:ख हुआ। ईश्वर से दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान और परिजनों को यह वज्रपात सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं।

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2020


bhopal,Biwara assembly constituency, declared vacant, with 27 seats

भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा द्वारा 161-ब्यावरा विधानसभा क्षेत्र को रिक्त घोषित कर दिया गया है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय द्वारा ब्यावरा विधानसभा के रिक्त होने की सूचना भारत निर्वाचन आयोग को दे दी गई है। प्रदेश के 27 विधानसभा क्षेत्रों के होने वाले उप निर्वाचन में ब्यावरा विधानसभा क्षेत्र को भी सम्मिलित किया जाएगा।उप मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी मध्यप्रदेश प्रमोद कुमार शुक्ला ने गुरुवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि राजगढ़ जिले की ब्यावरा विधानसभा में चुनाव करवाए जाने के लिए 3 जिलों बैतूल, रायसेन एवं विदिशा से ईवीएम मशीनें भेजी जा रही हैं। बैतूल से 500 कंट्रोल यूनिट, रायसेन से 268 कंट्रोल यूनिट एवं विदिशा से 900 बैलेट यूनिट भेजी जाएंगी। इस संबंध में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी राजगढ़, बैतूल रायसेन एवं विदिशा को मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय से पत्र लिखकर निर्देश जारी कर दिए गए हैं। ईवीएम मशीनें हस्तांतरित करने एवं उन्हें प्राप्त करने के दौरान मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय द्वारा उक्त जिलों के कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारियों को आयोग के निर्देशों तथा कोविड-19 के दिशा-निर्देशों का पालन सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है। इन मशीनों की बेंगलुरु के इंजीनियरों द्वारा जिला मुख्यालय राजगढ़ में एफएलसी (फर्स्ट लेवल चेकिंग) की जाएगी तथा इसके पश्चात उप निर्वाचन में मशीनें उपयोग की जायेंगी। एफएलसी के लिए आने वाले इंजीनियरों का सर्वप्रथम कोरोना टेस्ट होगा। एफएलसी का कार्य राजनीतिक दलों की उपस्थिति में किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि ब्यावरा विधानसभा में 285 मतदान केंद्र हैं। इसके अलावा आवश्यकतानुसार सहायक मतदान केन्द्र भी बनाए जायेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 17 September 2020


bhopal, I am overwhelmed, meet the girls ,Ladli Lakshmi Yojana, Shivraj

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 70वें जन्मदिवस के अवसर पर गुरुवार को राजधानी भोपाल में राज्यव्यापी पोषण महोत्सव का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने बालिकाओं से वार्तालाप किया और दुग्ध वितरण कार्यक्रम में शामिल हुए। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस कार्यक्रम में लाड़ली लक्ष्मी योजना लाभान्वित बालिकाओं से हुई उनकी भेंट सुखदायी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि करीब पंद्रह वर्ष पूर्व लाड़ली लक्ष्मी योजना प्रारंभ की गई थी। वे बालिकाएं जो योजना का लाभ लेकर अब शिक्षा हासिल करते हुए बड़ी कक्षाओं की तरफ बढ़ रही हैं, उनसे मिलना और बातचीत करना जीवन का एक सुखद और यादगार अनुभव है। आज इन लाड़लियों से भेंट कर अभिभूत हूँ।    मुख्यमंत्री ने अक्षिता, अनुष्का, तेजल, सूर्या, वर्तिका और अन्य बालिकाओं को योजना अंतर्गत प्रमाण-पत्र प्रदान किए। उन्होंने बालिकाओं से पढ़ाई-लिखाई और केरियर निर्माण के बारे में भी बातचीत की। यह कार्यक्रम स्वामी दयानंद नगर के अंकुर विद्यालय परिसर में सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम में महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी भी उपस्थित थीं। इस अवसर पर मुख्यमंत्री और मंत्री इमरती देवी ने अपने हाथों से बच्चों को सुगंधित और पौष्टिक दूध पिलाया।   मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2005 में मुख्यमंत्री बनने के बाद समाज में बालिकाओं और महिलाओं की स्थिति को देख उनके मन में लाड़ली लक्ष्मी योजना प्रारंभ करने का विचार मन में आया था। आज यह योजना फलीभूत हुई है। परिवार में कन्या के जन्म की खुशियां मनाई जाती हैं। बालिकाओं को बेहतर लालन-पालन और पढ़ाई-लिखाई के लिये सहायता मिलने से उनका मलोबल बढ़ा है। बालिकाएं सशक्त हो रही हैं। इससे बढक़र प्रसन्नता क्या होगी।   आंगनवाड़ी केन्द्रों को स्वैच्छिक सहयोग मिले   मुख्यमंत्री ने कहा कि राजधानी भोपाल से लेकर प्रदेश के गांव-गांव तक आंगनवाड़ी केन्द्र संचालित हैं। ये केन्द्र छोटे बच्चों को स्कूल पूर्व शिक्षा, पोषण आहार देने के साथ उनका उत्साह भी बढ़ाते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के आंगनवाड़ी केन्द्रों को सक्षम बनाने के लिये उनके अपने भवन बनाने, बच्चों की उपस्थिति बढ़ाने और बेहतर पोषण आहार उपलब्ध करवाने के प्रयास निरंतर किये जा रहे हैं। आंगनवाड़ी केन्द्रों में एक मटका अथवा पात्र रखकर स्वैच्छिक सहयोग भी आमंत्रित किया जा रहा है। इस सामाजिक जिम्मेदारी के अंतर्गत आमजन, शासकीय और अशासकीय संगठन आर्थिक सहायता से लेकर खिलौने, पोषण आहार भी दे सकते हैं। पारिवारिक मांगलिक प्रसंग जैसे जन्मदिन, विवाह, वर्षगांठ के अवसर पर नागरिकगण आंगनवाड़ी बच्चों को लाभान्वित कर खुशियां मना सकते हैं।   बच्चों के चेहरों पर मुस्कान देख मुस्कुराए सभी   मुख्यमंत्री ने वार्ड-31 स्थित आंगनवाड़ी केन्द्र क्रमांक 729 जिला भोपाल में पहुँचकर जब बच्चों को सुगंधित दूध का वितरण किया, बच्चों के चेहरे पर मुस्कान आ गई। बच्चों की प्रसन्नता और स्वाभाविक मुस्कान देखकर सभी उपस्थित अतिथि मुस्कुरा उठे। अंकुर विद्यालय के कार्यक्रम में मंत्री इमरती देवी सहित प्रमुख सचिव महिला एवं बाल विकास  अशोक शाह, संचालक महिला एवं बाल विकास स्वाति मीणा, कलेक्टर अविनाश लवानिया, स्थानीय नागरिक एवं जनप्रतिनिधि भी उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 17 September 2020


Bhopal, Congress celebrates,PM Modi

भोपाल। मध्यप्रदेश में युवक कांग्रेस के आह्वान पर पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जन्मदिन बेरोजगारी दिवस के रूप में मनाया। इस दौरान प्रदेशभर में युवा कार्यकर्ताओं द्वारा केन्द्र सरकार के खिलाफ पकौड़े तलकर विरोध-प्रदर्शन किया। राजधानी भोपाल में पीसीसी कार्यालयके सामने बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता इस प्रदर्शन में शामिल हुए।   दरअसल, युवक कांग्रेस नेता और कालापीपल विधायक कुणाल चौधरी द्वारा पीएम मोदी का जन्मदिन बेरोजगारी दिवस के रूप में मनाने का आह्वान किया गया था। इसी के चलते राजधानी भोपाल में गुरुवार सुबह पार्टी के कार्यकर्ता पीसीसी कार्यालय पहुंचे और विधायक कुणाल चौधरी के नेतृत्व में सांकेतिक रूप में कढ़ाई में पकौड़े तलकर प्रदर्शन किया। इसी दौरान पीसीसी के पास ही पूर्व मंत्री रामपाल सिंह के बंगले के पास बाइक सवार घायल होकर गिर गया। उसे मिर्गी का दौरा पड़ा था। युवक को घायल देख विधायक कुणाल चौधरी समेत अन्य कार्यकर्ता मदद के लिए भागे और युवक को अस्पताल पहुंचाया। घायल के सिर पर गंभीर चोट आना बताई जाती। ऐसे में वह कुछ बता भी नहीं सका। ऐसे में उसकी पहचान नहीं हो सकी है।

Dakhal News

Dakhal News 17 September 2020


bhopal, Chief Minister, reviewed , situation and arrangements, Corona

फीवर क्लीनिक्स को और प्रभावी और होम आइसोलेशन को "परफैक्ट" बनाने के निर्देश   भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को मंत्रालय में वीसी के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा की। इस अवसर पर उन्होंने निर्देश देते हुए कहा है कि प्रदेश के सभी जिलों में फीवर क्लीनिक्स को और प्रभावी बनाया जाए। ये प्रतिदिन नियमित रूप से संचालित रहें और आरटीपीसीआर टेस्ट के लिए सैम्पल लिए जाएं तथा रैपिड एंजीटन टेस्ट किए जाएं। मोबाइल फीवर क्लीनिक्स भी चलाए जाएं। हर जिले में ऑक्सीजन बैड्स और आईसीयू बैड्स की क्षमता बढ़ाई जाए।   मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन कोरोना मरीजों को लक्षण नहीं है तथा जिनके घर में आइसोलेशन की व्यवस्था है वे 'होम आइसोलेशन' में रह सकते हैं। हर जिले में होम आइसोलेशन व्यवस्था को परफैक्ट बनाया जाए। होम आइसोलेशन के मरीजों की प्रतिदिन मॉनीटरिंग की अच्छी व्यवस्था हो। प्रदेश में वर्तमान में 32 प्रतिशत कोरोना मरीज होम आइसोलेशन में रह रहे हैं। समीक्षा बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान उपस्थित थे।   कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेंटर से 'होम आइसोलेशन' की मॉनीटरिंग   भोपाल जिले की समीक्षा में कलेक्टर ने बताया कि 'कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेंटर' के माध्यम से 'होम आइसोलेशन' वाले मरीजों की निरंतर मॉनीटरिंग की जा रही है। मुख्यमंत्री ने सभी जिले में इस प्रकार की व्यवस्था लागू करने के निर्देश दिए।   बैड्स की क्षमताएं बढ़ाएं   मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि हर जिले के अस्पतालों में कोरोना मरीजों के लिए बैड्स की क्षमता बढ़ाई जाए। भोपाल जिले की समीक्षा में बताया गया कि यहां वर्तमान में 1488 ऑक्सीजन एवं आईसीयू बैड्स हैं, जिन्हें बढ़ाकर 2201 किया जा रहा है।   प्रतिदिन 25 हजार टेस्ट   मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि हर जिले में कोरोना की टेस्टिंग बढ़ाई जाए। मुख्य सचिव ने बताया कि प्रतिदिन 25 हजार टेस्ट करने का लक्ष्य रखा गया है। कोरोना मरीजों की जल्दी पहचान कर उनका तुरंत उपचार किए जाकर शत-प्रतिशत मरीजों को स्वस्थ किया जा सकता है।   प्रदेश की मृत्यु दर अब 1.93 प्रतिशत   मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश में कोरोना के बड़ी संख्या में मरीज ठीक होकर घर जा रहे हैं। प्रदेश की रिकवरी दर 74.9 प्रतिशत है तथा मृत्यु दर 1.93 प्रतिशत है। वहीं प्रति दस लाख हमारी टेस्टिंग 21 हजार 117 तथा पॉजिटिविटी रेट 5.50 प्रतिशत है।   सक्रिय मरीजों में 13वें और पॉजीटिव मरीजों में 14वें स्थान पर   अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य ने बताया कि तुलनात्मक रूप से देश में सक्रिय मरीजों की संख्या के मान से मध्यप्रदेश 13वें तथा पॉजीटिव मरीजों की संख्या के मान से 14वें स्थान पर है। प्रदेश में 15 सितम्बर की स्थिति में सक्रिय मरीजों की संख्या 21 हजार 620 और 16 सितम्बर को एक्टिव मरीजों की संख्या 22136 है।   इंदौर में सर्वाधिक 393 नए प्रकरण   जिलेवार समीक्षा में पाया गया कि इंदौर जिले में सर्वाधिक 393 नए कोरोना पॉजीटिव मिले हैं। इसके पश्चात भोपाल में 256, ग्वालियर में 226, जबलपुर में 124, नरसिंहपुर में 85, खरगौन में 82, शहडोल में 71, धार में 70, कटनी में 63 तथा उज्जैन में 59 नए प्रकरण हैं। मुख्यमंत्री ने इन जिलों पर विशेष ध्यान दिए जाने के निर्देश दिए।  

Dakhal News

Dakhal News 16 September 2020


indore, Ex-minister ,severely accuses, government, Indore administration, servant of BJP

इंदौर। मध्यप्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष और मीडिया विभाग के चेयरमैन जीतू पटवारी ने बुधवार को स्थानीय रेसीडेंसी कोठी के बाहर एक पत्रकार-वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना ने समूचे मध्यप्रदेश में भयानक रूप अख्तियार कर लिया है, जिससे इंदौर सर्वाधिक प्रभावित हुआ है। उन्होंने कहा कि यह उल्लेखनीय है कि जिस परिवार का सदस्य कोरोना संक्रमित हो रहा है उसकी पीड़ा को केवल वही परिवार समझ सकता है। अकेले इंदौर में ही कोरोना के कारण अब तक 473 मौतें हो चुकी हैं और यह आधिकारिक आंकड़ा है जो प्रशासन के द्वारा दिया गया है लेकिन वास्तविकता में इससे तीन गुना अधिक मौतें हुई हैं।   इस दौरान पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि इंदौर शहर का प्रशासन कोरोना से हो रही मौतों और संक्रमित लोगों की संख्या को सरकार के इशारे पर छुपा रहा है। मुख्यमंत्री के निर्देश हैं कि कोरोना के असली आंकड़ों को छुपाया जाए, जांच की केवल बातें की जाएं, भाषण दिए जाएं, लेकिन वास्तविकता में जांच न की जाए, प्रशासन वैसा ही कर रहा है। पटवारी कहा कि यह चिंतनीय है कि लगभग 400 पॉजिटिव केस इंदौर में रोज आ रहे हैं, इस हिसाब से कांग्रेस पार्टी का अनुमान है की दीवाली तक लगभग 50000 केस हो सकते हैं। केंद्र और राज्य सरकार कोरोना के इलाज के नाम पर डेढ़ लाख रुपए तक, प्रति मरीज, उन चिन्हित अस्पतालों को दे रहे हैं, जिनसे सरकार का एग्रीमेंट है।   जीतू पटवारी ने निजी अस्पतालों पर कोरोना के नाम पर लूट का आरोप लगाते हुए कहा कि निजी अस्पताल जनता को सीधे लूट रहे हैं। सांवेर के प्रत्याशी और पूर्व सांसद प्रेमचंद गुड्डू जो कोरोना से लड़ाई लड़ चुके हैं, वह स्वयं और मेरे चाचा भी निजी अस्पतालों की इस लूट का शिकार हो चुके हैं, आम आदमी के हालात का तो आप केवल अंदाजा ही लगा सकते हैं। प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए सवाल पूछा है कि सरकार ने निजी अस्पतालों को लूट की छूट दे रखी है। निजी अस्पताल 5 लाख या उससे अधिक में इलाज कर रहे हैं और सरकार ने डेढ़ लाख रुपए प्रति मरीज निर्धारित किए हैं, ऐसा क्यों? बिलों में अंतर का अनुपात इतना अधिक क्यों है? पूरी प्रक्रिया पर जिला प्रशासन ने आंख क्यों मूंद रखी है?  

Dakhal News

Dakhal News 16 September 2020


bhopal, Food minister, retaliates , Congress launches, IAS in elections

भोपाल। मध्य प्रदेश में विधानसभा उपचुनाव की सुगबुगाहट तेज हो गई है। भाजपा और कांग्रेस नेता जनसभाओं के जरिए जनता के बीच जाकर उनकी नब्ज टटोल रहे हैं। कांग्रेस की तरफ से उपचुनाव के प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी गई। वहीं अभी भाजपा की तरफ से प्रत्याशियों की सूची का इंतजार है। कांग्रेस ने उपचुनाव में राज्य प्रशासनिक सेवा के एक अधिकारी को प्रदेश के खाद्य मंत्री बिसाहूलाल सिंह के सामने उतारने जा रही है। जिस पर मंत्री बिसाहूलाल हमला बोला है।   मंत्री बिसाहूलाल ने बुधवार को मीडिया से बातचीत करते हुए चुनाव में राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी को अपना प्रतियोगी उम्मीदवार बनाए जाने पर कांग्रेस पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि कांग्रेस पार्टी ऐसे उम्मीदवार को उनके सामने उतार रही है जिसने शासकीय कर्मचारी होते हुए गरीबों की सेवा नहीं की, उनका काम नहीं किया। वही राशन घोटाले को लेकर उन्होंने कहा कि अगर घोटाले के प्रमाण उनके सामने प्रस्तुत किए जाएंगे तो वह उन पर कार्रवाई करेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 16 September 2020


bhopal, Water transported, farms,en-Betwa Link project,approved, Chief Minister

छतरपुर/भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि अतिवृष्टि के कारण जिन किसानों की फसलें खराब हुई हैं, उनका सर्वे कर हरसंभव सहायता की जाएगी। किसानों के साथ अन्याय नहीं होगा। उन्होंने कहा कि केन बेतवा लिंक परियोजना को स्वीकृत कर छतरपुर जिले के प्रत्येक खेत तक पानी पहुँचाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने यह बातें मंगलवार को छतरपुर जिले की तहसील बड़ामलहरा के ग्राम लिधौरा में काठन वृहद सिंचाई परियोजना के भूमिपूजन एवं हितग्राही सम्मेलन को संबोधित करते हुए कही। इस अवसर पर उन्होंने 544 करोड़ रुपये की लागत विकास कार्यों का भूमिपूजन और लोकार्पण किया। जिसमें 394 करोड़ रुपये की काठन सिंचाई परियोजना का भूमिपूजन भी शामिल है। इस परियोजना से 74 गांव के 15 हजार हेक्टेयर में सिंचाई होगी। इस अवसर पर विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को लाभांवित किया गया। जिनमें वन अधिकार पट्टों का वितरण, लाड़ली लक्ष्मी योजना, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना, पीएम स्वनिधि योजना के हितग्राही शामिल हैं। कार्यक्रम का शुभारंभ कन्या पूजन से हुआ। इस अवसर पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री उमा भारती, लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव, सांसद वीडी शर्मा, नागरिक आपूर्ति निगम के अध्यक्ष प्रद्युम्न सिंह लोधी, विधायकगण सहित जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।हीरा खदानों में 75 प्रतिशत रोजगार बुन्देलखंड के युवाओं कोमुख्यमंत्री ने कहा कि क्षेत्र में विकास के जो कार्य ठप हो गए थे, उन्हें पुनः प्रारंभ किया जाएगा। स्थानीय उद्योगों, जिले की हीरों की खदानों में 75 प्रतिशत नौकरियाँ बुंदेलखण्ड के युवाओं को मिलेंगी। छतरपुर में मेडिकल कॉलेज का कार्य शुरू किया जाएगा। संबल योजना में गरीबों को लाभ दिलाया जाएगा। किसानों के साथ अब न्याय होगा। उन्होंने कहा कि 18 सितम्बर को 20 लाख किसानों के खातों में फसल बीमा 4600 करोड़ की राशि डाली जाएगी, 16 सितम्बर को मध्यप्रदेश के 37 लाख लोगों को 1 रुपये प्रति किलो की दर से गेहूँ मिलना शुरू हो जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आशीर्वाद से छतरपुर जिले के 88 हजार 773 गरीबों को सस्ता राशन मिलना शुरू हो जाएगा। जल-जीवन मिशन के तहत प्रत्येक गांव नलों से पानी मिलेगा।लिधौरा में स्टेडियम और घुवारा में कॉलेजमुख्यमंत्री ने कहा कि लिधौरा में स्टेडियम बनेगा, हाईस्कूल का उन्नयन होगा, घुवारा में अगले सत्र से कॉलेज शुरू होगा, भीमकुण्ड पर्यटन स्थल बनेगा, बड़ामलहरा में 100 बिस्तर का अस्पताल उन्नयन होगा।  कार्यक्रम में पूर्व केन्द्रीय मंत्री उमा भारती ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की प्रशंसा करते हुए कहा कि उनमें गम्भीरता, परिपक्वता, सहनशीलता और शालीनता हैं। जितने अच्छे तरीके से वे सरकार चला रहे हैं उतने अच्छे से मैं भी नहीं चला पाती। मुख्यमंत्री चौहान एक गृहस्थ संत की तरह लोगों की सेवा कर रहे हैं। पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि आत्मनिर्भर देश के बनाने में मध्यप्रदेश एक मॉडल स्टेट के रूप में कार्य करेगा। यहां सारे संसाधन उपलब्ध हैं। परिश्रम करने वाले लोग हैं। प्राकृतिक संपदा है। अब विकास के मामले में बुंदेलखण्ड पीछे नहीं रहेगा। बांध के बन जाने से सिंचाई परियोजना के पूर्ण होने पर बुंदेलखण्ड की गरीबी दूर होगी। परकेपिटा इनकम के मामले में बुंदेलखण्ड में बढ़ोत्तरी होगी।

Dakhal News

Dakhal News 15 September 2020


bhopal, Kamal Nath, government cheated, Shivraj government,Vishnudutt Sharma

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा है कि कांग्रेस के लिए गरीब मात्र वोट बैंक हैं, जबकि भारतीय जनता पार्टी के लिए गरीबों का कल्याण ही मिशन है। 15 महीने रही कमलनाथ सरकार ने गरीबों के जनकल्याण की सारी योजनाएं बंद कर दी थी। कांग्रेस ने गरीबों का शोषण किया,  वहीं भारतीय जनता पार्टी की सरकार गरीबों के जीवन में खुशियों के रंग भरने का काम कर रही है। 16 सितंबर को भाजपा सरकार प्रदेश के गरीब परिवारों को अन्न उत्सव के माध्यम से राशन पर्ची का वितरण करेंगी। यह आयोजन अभी तक का सबसे बड़ा कार्यक्रम है जिसके माध्यम से 37 लाख परिवार लाभान्वित होंगे।   प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि इंदिरा गांधी ने गरीबी हटाओ का नारा दिया था, लेकिन गरीबी नहीं हटी। कांग्रेस में कई पीढ़ियां बदल गई, लेकिन गरीबी हटाओ का नारा नहीं बदला। कांग्रेस ने गरीबी हटाने के बजाए गरीबों को ही हटाने का काम किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री रहते कमलनाथ ने 15 महीने इसी गरीब विरोधी मानसिकता के साथ दमनपूर्व काम किया। भाजपा सरकार ने 15 सालों में गरीबों के कल्याण के लिए जो योजना चलायी थी उसे कमलनाथ सरकार ने बंद कर दिया था। गरीबों का जीवन संवारने वाली संबल योजना को कमलनाथ सरकार ने बंद कर गरीबों को अंतिम क्षणों में मिलने वाली राहत बंद कर दी थी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव में हर वर्ग से बड़े-बड़े वादे किए थे, जनता ने उन्हें सेवा का मौका दिया, लेकिन कांग्रेस ने जनता को धोखा दिया। उन्होंने कहा कि उपचुनाव में फिर कांग्रेस जनता को भ्रमित कर रही है, लेकिन जनता कांग्रेस के इस बहकावे में नहीं आने वाली। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी गरीबों की सेवा के लिए समर्पित है। भाजपा की सरकार ने कोरोना संकटकाल के विपरीत समय में किसान, महिला एवं गरीब तबके को राहत देने का काम किया है। रेहड़ी, पटरी और खोमचे लगाकर अपनी आजीविका चलाने वाले छोटे व्यापारियों को लाभ दिया। वहीं प्रधानमंत्री आवास योजना के 1.75 लाख हितग्राहियों को आवास की सौगात दी। 16 सितंबर को 37 लाख हितग्राहियों को राशन, पर्ची वितरण का कार्यक्रम होगा। जिसके माध्यम से गरीबों की जिंदगी में खुशियों के रंग आयेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 15 September 2020


bhopal, Kamal Nath, government cheated, Shivraj government,Vishnudutt Sharma

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा है कि कांग्रेस के लिए गरीब मात्र वोट बैंक हैं, जबकि भारतीय जनता पार्टी के लिए गरीबों का कल्याण ही मिशन है। 15 महीने रही कमलनाथ सरकार ने गरीबों के जनकल्याण की सारी योजनाएं बंद कर दी थी। कांग्रेस ने गरीबों का शोषण किया,  वहीं भारतीय जनता पार्टी की सरकार गरीबों के जीवन में खुशियों के रंग भरने का काम कर रही है। 16 सितंबर को भाजपा सरकार प्रदेश के गरीब परिवारों को अन्न उत्सव के माध्यम से राशन पर्ची का वितरण करेंगी। यह आयोजन अभी तक का सबसे बड़ा कार्यक्रम है जिसके माध्यम से 37 लाख परिवार लाभान्वित होंगे।   प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि इंदिरा गांधी ने गरीबी हटाओ का नारा दिया था, लेकिन गरीबी नहीं हटी। कांग्रेस में कई पीढ़ियां बदल गई, लेकिन गरीबी हटाओ का नारा नहीं बदला। कांग्रेस ने गरीबी हटाने के बजाए गरीबों को ही हटाने का काम किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री रहते कमलनाथ ने 15 महीने इसी गरीब विरोधी मानसिकता के साथ दमनपूर्व काम किया। भाजपा सरकार ने 15 सालों में गरीबों के कल्याण के लिए जो योजना चलायी थी उसे कमलनाथ सरकार ने बंद कर दिया था। गरीबों का जीवन संवारने वाली संबल योजना को कमलनाथ सरकार ने बंद कर गरीबों को अंतिम क्षणों में मिलने वाली राहत बंद कर दी थी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव में हर वर्ग से बड़े-बड़े वादे किए थे, जनता ने उन्हें सेवा का मौका दिया, लेकिन कांग्रेस ने जनता को धोखा दिया। उन्होंने कहा कि उपचुनाव में फिर कांग्रेस जनता को भ्रमित कर रही है, लेकिन जनता कांग्रेस के इस बहकावे में नहीं आने वाली। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी गरीबों की सेवा के लिए समर्पित है। भाजपा की सरकार ने कोरोना संकटकाल के विपरीत समय में किसान, महिला एवं गरीब तबके को राहत देने का काम किया है। रेहड़ी, पटरी और खोमचे लगाकर अपनी आजीविका चलाने वाले छोटे व्यापारियों को लाभ दिया। वहीं प्रधानमंत्री आवास योजना के 1.75 लाख हितग्राहियों को आवास की सौगात दी। 16 सितंबर को 37 लाख हितग्राहियों को राशन, पर्ची वितरण का कार्यक्रम होगा। जिसके माध्यम से गरीबों की जिंदगी में खुशियों के रंग आयेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 15 September 2020


bhopal, Ministers should participate, every district, poor welfare week, CM Shivraj

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश में 16 सितम्बर से 23 सितम्बर तक गरीब कल्याण सप्ताह में मंत्रियों को जन-कल्याण के कार्यक्रमों में सहभागिता करने को कहा है। यह कार्यक्रम निरंतर 8 दिन राज्य और जिला स्तर पर होंगे। फेसबुक, ट्विटर और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से इन कार्यक्रमों से लाखों लोग जुड़ेंगे। मुख्यमंत्री ने इन कार्यक्रमों से अधिकाधिक लोगों को जोडऩे के निर्देश सभी विभागों को दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह कार्यक्रम किसी एक या दो विभाग के न होकर राज्य सरकार के हैं। इनसे जन-जन के कल्याण का उद्देश्य पूर्ण हो रहा है। अत: कार्यक्रमों में प्रत्येक विभाग सक्रिय रूप से शामिल हों।   मुख्यमंत्री ने यह बातें मंगलवार को मंत्रि-परिषद की बैठक प्रारंभ होने से पहले मंत्रियों से चर्चा करते हुए कही। उन्होंने कहा कि 17 सितम्बर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जन्म दिवस है। वह एक व्यक्ति नहीं संस्था हैं। उनके ह्रदय में बचपन से निर्धनों के प्रति करूणा का भाव रहा है। उनके बाल्यकाल से साहस के वृतांत जानने को मिलते रहते हैं। नरेन्द्र मोदी जी ने स्वामी विवेकानंन्द का साहित्य पढ़ा और समाज सेवा के लिये जीवन अर्पित किया है। वे जिस भी संगठन से जुड़े, उसे गतिशील बनाया।    मोदी जी के सक्षम नेतृत्व में भारत बन गया एक महाशक्ति   मुख्यमंत्री ने कहा जब गुजरात की बेहाल दशा थी, तब नरेन्द्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री बने और उन्होंने गुजरात की कायापलट कर दी। गुजरात मॉडल भी लोकप्रिय हो गया। वे कला, संस्कृति, इतिहास के अध्येता हैं। वर्ष 2014 से उन्होंने गौरवशाली, वैभवशाली और समृद्ध भारत के निर्माण के लिये प्रभावी कदम उठाये हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि नरेन्द्र मोदी के सक्षम नेतृत्व मे भारत एक महाशक्ति बन गया है। सर्जिकल स्ट्राइक का उदाहरण हो या चीन से जूझने का निर्णय, उन्होंने देश को बदल कर रख दिया है। अयोध्या के मामले के साथ ही कश्मीर से धारा 370 समाप्त करने का मामला हो अथवा तीन तलाक और नागरिकता कानून का विषय हो, उनके साहस से सभी परिचित हैं। वे राष्ट्रभक्ति के भाव से कार्य करने वाले योगी प्रधानमंत्री हैं।   मध्यप्रदेश में गरीब कल्याण सप्ताह   मुख्यमंत्री ने बताया कि मध्यप्रदेश में गरीब सप्ताह के अंतर्गत 16 सितम्बर से 23 सितम्बर तक विभिन्न जन-कल्याणकारी योजनाओं में हितग्राहियों को लाभान्वित करने का कार्यक्रम निर्धारित किया गया है। यह कार्यक्रम गरीबों की जिंदगी में प्रसन्नता के रंग भरेंगे। उन्होंने बताया कि 16 सितम्बर को अन्न उत्सव का आयोजन होगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि 17 सितम्बर को प्रधानमंत्री के जन्म दिवस पर आंगनवाड़ी केन्द्रों में कुपोषित बच्चों को दूध बांटा जाएगा। इसी दिन सरपंचों के उन्मुखीकरण और लाड़ली लक्ष्मी योजना की राशि का वितरण भी होगा। मंत्रिगण इन कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे।    मुख्यमंत्री ने बताया कि 18 सितम्बर को 18 लाख किसानों के खातों में साढ़े चार हज़ार करोड़ रुपये की फसल बीमा राशि जमा की जाएगी। इसी तरह 19 सितम्बर को वनाधिकार पट्टों का वितरण और 20 सितम्बर को स्व-सहायता समूहों के सशक्तिकरण के लिये उनको 150 करोड़ रुपये की राशि देने का कार्य किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि 21 सितम्बर को ग्रामीण क्षेत्र के स्ट्रीट वेंडर्स को लाभान्वित किया जाएगा। जिसमें प्रति हितग्राही 10-10 हजार रुपये की ऋण राशि, कार्यशील पूंजी के रूप में प्राप्त कर अपने लघु व्यवसाय का उन्नयन कर सकेंगे।   मुख्यमंत्री ने बताया कि गरीब कल्याण सप्ताह में 22 सितम्बर को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि में हितग्राहियों को किसान क्रेडिट कार्ड का वितरण होगा। किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण वितरण के लिये 800 करोड़ रुपये की राशि सहकारी बैंकों में जमा करवाई जाएगी। मुख्यमंत्री ने बताया कि 23 सितम्बर को सम्बल योजना में हितग्राहियों को हित लाभ दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सभी कार्यक्रम कोरोना काल में एक साथ विभिन्न वर्गों को लाभान्वित कर प्रदेश की तकदीर और तस्वीर बदलने का कार्य करेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 15 September 2020


ratlam, Making a policy, promote small-medium industries , reaching every district

रतलाम। सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा ने कहा कि तालाबंदी के पश्चात तथा कोरोना काल में लघु, मध्यम उद्योगों का महत्व बढ़ गया है। यह उद्योग सबसे ज्यादा रोजगार देने वाले उद्योग है। स्थानीय फीडबैक के आधार पर लघु, मध्यम उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए वे विभिन्न जिलों में पहुंचकर  स्थिति का अध्ययन कर रहे हैं, ताकि इन उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए नीति तैयार की जा सके। उन्होंने नई औद्योगिक इकाईयों की स्थापना हेतु 10 दिनों में एक्शन प्लान तैयार करने के निर्देश दिए। जिले में 100 लघु-मध्यम औद्योगिक इकाईयों की स्थापना के प्रस्ताव तैयार करने का लक्ष्य है। यह प्रस्ताव एक माह में तैयार करने का कहा गया है।    औद्योगिक संभावनाओं की पड़ताल करें   सोमवार को सर्किट हाउस पर विभागीय अधिकारियों की बैठक में इस संबंध में चर्चा कर यह निर्देश दिए गए। मंत्री सकलेचा ने निर्देशित किया कि 10 हेक्टेयर क्षेत्र को चार जोन में बांटा जाकर प्रत्येक जोन में 15 से 20 लघु उद्यमियों को भूमि आवंटित की जाए। उन्होंने महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र को निर्देशित किया कि रतलाम तथा आसपास के क्षेत्रों में किस प्रकार की नवीन उद्यम इकाइयों की स्थापना की जा सकती है, इसकी विस्तृत पड़ताल करें।      समय-सीमा में उद्योग न लगने पर आवंटित भूमि वापस ली जाएगी   मंत्री सकलेचा ने कहा कि जो भी उद्यमी भूमि प्राप्त करें उसे एक निश्चित समय सीमा में अपनी औद्योगिक इकाई स्थापित करना होगी। समय सीमा बाहर जाने पर आवंटित भूमि वापस ले ली जाएगी। उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य उद्यम इकाइयों की स्थापना को उच्चतम स्तर पर ले जाना है।    हर जिला आत्मनिर्भर बने   मंत्री सकलेचा ने बैठक में कहा कि  आत्मनिर्भर भारत एवं मध्यप्रदेश की अवधारणा के साथ हर जिला आत्मनिर्भर बने, हम किफायती दरों पर सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्योगों को बिजली देंगे। दरों को कम से कम किया जा रहा है, उद्योगपतियों की सहूलियत के लिए प्रॉपर्टी टैक्स के संबंध में भी गंभीरता से विचार कर रहे हैं। समय अंतराल में उद्योगों और श्रमिकों के मध्य कांट्रैक्टर्स की बड़ी संख्या उत्पन्न हो गई है, इस ट्रेंड को कम किया जाएगा।  

Dakhal News

Dakhal News 14 September 2020


betul,After former minister ,Pansy, now MLAs Dharamu , Bramha , corona infected

बैतूल। प्रदेश के पूर्व पीएचई मंत्री और मुलताई विधायक सुखदेव पांसे के बाद अब जिले के भैंसदेही विधायक धरमूसिंह सिरसाम, उनकी पत्नी सहित परिवार के कुल पांच सदस्य और घोड़ाडोंगरी विधायक ब्रम्हा भलावी भी कोरोना संक्रमित हो गए हैं। भैंसदेही विधायक और उनकी पत्नी को चिरायु अस्पताल भोपाल भेजा गया है और उनके परिवार के तीन सदस्यों को कोविड केयर सेंंटर भैंसदेही में भर्ती किया गया है, वहीं घोड़ाडोंगरी विधायक ब्रम्हा भलावी की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्हें घर में ही एकांतवास में रखा गया है। इसके साथ ही शाहपुर टीआई एसएन मुकाती, बैतूलबाजार टीआई आदित्य सेन भी कोरोना संक्रमित हो गए हैं।   बता दें कि पिछले दिनों मुलताई विधायक सुखदेव पांसे कोरोना संक्रमित पाए गए थे, तभी से उनका घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है। रविवार रात जिले में प्राप्त रिपोर्ट में कोरोना के 42 नये संक्रमित मिले हैं, जिनमें भैंसदेही विधायक धरमूसिंह, घोड़ाडोंगरी विधायक ब्रह्मा भलावी, बैतूल बाजार टीआई आदित्य सेन और शाहपुर टीआई एसएन मुकाती की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। जिले में अब संक्रमित मरीजों की संख्या 1154 हो गई है। हालांकि, इनमें से आठ सौ मरीज स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच चुके हैं। अब जिले में सक्रिय मरीज 324 हैं, जिनमें 192 का अस्पताल और 132 मरीजों का घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है।   भैंसदेही विधायक धरमूसिंह सिरसाम के कोरोना संक्रमित होने के बाद क्षेत्र में हडकम्प मच गया है। दरअसल, वे पिछले सप्ताह लगातार जनसंपर्क करते रहे और लोगों से मिलते रहे हैं। विधायक की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के साथ ही उनकी पत्नी, बेटे, बहू और पोते की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। विधायक की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी सिरसाम के निवास पहुंच गए। अधिकारियों ने उनकी इच्छानुसार उनकी पत्नी और उन्हें चिरायु अस्पताल भोपाल भेज दिया है। वहीं परिवार के तीन सदस्यों को भैंसदेही कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया है।

Dakhal News

Dakhal News 14 September 2020


bhopal, BJP leaders, including CM Shivraj, greeted , Hindi Day

भोपाल। आज यानि सोमवार को हिंदी दिवस है। हर साल हिंदी दिवस 14 सितम्बर को मनाया जाता है। कई देशों में बोली जाने वाली यह भाषा सबसे प्राचीन भाषाओं में से एक है. जिसे भारत की 'राष्ट्रभाषा' के तौर पर भी जाना जाता है। इस दिन ही देवनागरी लिपि में हिंदी को भारत की आधिकारिक भाषा के रूप में अपनाया गया था। साल 1953 में पहली बार हिंदी दिवस का आयोजन हुआ था। तभी से यह सिलसिला बना हुआ है। हिंदी दिवस को मनाने का उद्देश्य हिंदी भाषा की स्थिति और विकास पर मंथन को ध्यान में रखना है। हिंदी दिवस पर मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत भाजपा नेताओं ने शुभकामनाएं दी है।   सीएम शिवराज ने ट्वीट कर हिंदी दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा ‘भाषा से ही हमारा गौरव, भाषा ही सम्मान है। सूर, कबीर, तुलसी, प्रेमचंद, हिन्दी का वरदान हैं। हर भाषा से प्रेम और हिन्दी पर अभिमान है। हिन्दी हमारी संस्कृति, अस्मिता और देश की आवाज है। इसे मान दें, अक्षुण्ण बनायें, देश का गौरव समृद्ध होगा। हिंदी दिवस पर शुभकामनाएं!   भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने शुभकामनाएं देते हुए हिंदी भाषा को भारत की एकता एवं अखंडता का प्रतीक बताते हुए कहा ‘आइये आज हिंदी दिवस पर संकल्प लें कि दैनिक व्यवहार में ज्यादा से ज्यादा हिंदी का प्रयोग करेंगे एवं बच्चों, युवाओं को इसके लिए प्रोत्साहित करेंगे। भारत की एकता एवं अखंडता की प्रतीक हिंदी भाषा का गौरव और मान बढ़ायें। हिन्दी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।   भाजपा राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने अपने शुभकामना संदेश में कहा ‘निज भाषा उन्नति अहै, सब उन्नति को मूल। बिन निज भाषा-ज्ञान के, मिटत न हिय को सूल।। हिंदी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।   गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ट्वीट कर हिंदी दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा ‘हिंदी सिर्फ हमारी मातृभाषा ही नहीं बल्कि यह राष्ट्रीय अस्मिता और गौरव का प्रतीक है। राष्ट्रभाषा हिंदी हम सभी को भावनात्मक एकता के सूत्र में पिरोती है। आप सभी को हिंदी दिवस की बधाई और शुभकामनाएं।   पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और सांसद राकेश सिंह ने कहा ‘भारत मां के भाल पर सजी स्वर्णिम बिंदी हूं, मैं भारत की बेटी आपकी अपनी हिंदी हूं। हिंदी दिवस पर आप सभी को हार्दिक शुभकामनाएं।

Dakhal News

Dakhal News 14 September 2020


bhopal, Congress celebrate, PM Modi

भोपाल। देशभर में भाजपा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जन्मदिन को सेवा दिवस के रुप में मनाने की तैयारी में है। वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस पीएम मोदी के जन्मदिन को बेरोजगारी दिवस के रूप में मनाएगी। कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी ने पीएम मोदी के जन्मदिन को बेरोजगारी दिवस के रुप में मनाने का एलान किया है। उन्होंने कहा कि देशभर में कोरोना काल में बेरोजगारी बढ़ी है, इसलिए पूरे देशभर में युवा कांग्रेस 17 सितंबर यानी पीएम मोदी के जन्मदिन पर बेरोगारी दिवस मानाने जा रही है।   मध्य प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष और कालापीपल से कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी ने कहा 17 सितंबर इसीलिए चुना गया है इस महा अभियान के लिए क्योंकि देश में बेरोगारी की वजह सिर्फ और सिर्फ पीएम मोदी ही है। उन्होंने कहा कि दुनियाभर में सबसे ज्यादा युवा आबादी भारत में है, जोकि हमेशा से हमारे देश की ताकत रही है, लेकिन जब से देश में बीजेपी की सरकार आई है तब से देश में बेरोजग़ारी दर कई गुना बढ़ गई है।   मंत्री विश्वास सारंग ने साधा निशाना कांग्रेस के इस ऐलान पर निशाना साधते हुए कैबिनेट मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि झूठ औऱ धोखा देने वाले यही काम कर सकते हैं। भारत के पीएम नरेंद्र मोदी से देश की आबोहवा को ठीक किया है। इतिहास में पहली बार किसी अर्थव्यवस्था को सीधे जनता से जोड़ा है।

Dakhal News

Dakhal News 13 September 2020


bhopal, Cell , supply oxygen , MP, Shivraj thanks, PM Modi

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना काल के समय मेडिकल ऑक्सीजन की कमी से जूझ रही सरकार की ओर केन्द्र सरकार ने मदद का हाथ बढ़ाया है। स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया (सेल) अब प्रदेश को 50 टन ऑक्सीजन सप्लाई करेगा। इससे एमपी के पास 180 टन का स्टॉक होगा। जिसके बाद अब प्रदेश में कोरोना मरीजों के लिए ऑक्सीजन की कमी नहीं होगी। केंदीय मंत्री पीयूष गोयल ने स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया से इसके लिए मध्यस्थता की है। सेल आज से ऑक्सीजन की सप्लाई शुरू कर देगा। इसके लिए सेल से ऑक्सीजन सप्लायर्स के टैंकर्स भी मिल चुके हैं। सीएम शिवराज ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। उन्होंने लिखा है कि 'आज मेरे अनुरोध पर भारत सरकार ने मध्यप्रदेश को 50 टन प्रतिदिन ऑक्सीजन की आपूर्ति की, जिससे हमारी ऑक्सीजन की उपलब्धता बढक़र 180 टन प्रतिदिन हो गई है। कोविड19 के इस कठिन समय में मध्यप्रदेश का सहयोग करने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी और पीयूष गोयल को सहृदय धन्यवाद देता हूं'। गौरतलब है कि कोरोना संकट के चलते मप्र के कई जिलों में ऑक्सीजन की कमी का मामला सामने आया था। महाराष्ट्र से मेडिकल ऑक्सीजन की सप्लाई बंद होने से प्रदेश में इसकी कमी हुई थी। सीएम शिवराज ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से फोन पर बात कर सप्लाई जारी रखने का आग्रह किया था जिस पर उन्होंने आश्वासन भी दिया था। वहीं अब सेल से ऑक्सीजन की सप्लाई शुरू होने पर मप्र को राहत मिलेगी।  

Dakhal News

Dakhal News 13 September 2020


gwalior, Suspend ,police officer, whose vehicle ,Scindia rode,Congress

ग्वालियर। प्रदेश कांग्रेस ने उस पुलिस अफसर को सस्पेंड करने की मांग की है, जिसे आवंटित गाड़ी में भाजपा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया घूमे और जनता का अभिवादन स्वीकार किया। कांग्रेस के ग्वालियर-चंबल संभाग के मीडिया प्रमुख के.के.मिश्रा ने कहा कि सिंधिया का यह कृत्य विचारणीय है।   प्रदेश कांग्रेस के मीडिया प्रमुख (ग्वालियर-चम्बल संभाग) के.के.मिश्रा ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के साथ डबरा विधानसभा क्षेत्र में सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा पुलिस के वाहन क्रमांक MP 03A 6271 में सवार होकर किये गए जनसंपर्क पर घोर आपत्ति जताई है। मिश्रा ने कहा कि यह महज त्रुटि या संयोग नहीं बल्कि पूर्व नियोजित और सबकी जानकारी में व जानबूझ कर किया गया एक असंवैधानिक कार्य है, क्योंकि पुलिस की गाड़ी में पहले से ही तिरंगा ध्वज भी लगा हुआ था।  यदि ऐसा नहीं है तो सरकार/प्रशासन को यह स्पष्ट करना चाहिए कि शिवराज-महाराज के राजनैतिक प्रवास पर पुलिस के वाहन पर राष्ट्रीय ध्वज कैसे-क्यों लगाया गया, क्या पुलिस के वाहन पर राष्ट्रीय ध्वज लगाया जाता है, अथवा सिंधिया प्रदेश के डीजीपी, एडीजी, आईजी, डीआइजी या किसी जिले के एसपी हैं? यदि ऐसा नहीं तो उन्हें पुलिस का वाहन क्यों उपलब्ध कराया गया? प्रशासन का यह रवैया इस बात का स्पष्ट संकेत है कि इस अंचल में निष्पक्ष उपचुनाव असंभव है। उन्होंने मांग की है कि चुनाव की अधिसूचना जारी होने के पूर्व ही समूचे जिले के पुलिस प्रशासन को अविलंब स्थानांतरित किया जाए और पुलिस अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की जाए, जिसको उक्त वाहन आवंटित है। 

Dakhal News

Dakhal News 12 September 2020


gwalior, Suspend ,police officer, whose vehicle ,Scindia rode,Congress

ग्वालियर। प्रदेश कांग्रेस ने उस पुलिस अफसर को सस्पेंड करने की मांग की है, जिसे आवंटित गाड़ी में भाजपा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया घूमे और जनता का अभिवादन स्वीकार किया। कांग्रेस के ग्वालियर-चंबल संभाग के मीडिया प्रमुख के.के.मिश्रा ने कहा कि सिंधिया का यह कृत्य विचारणीय है।   प्रदेश कांग्रेस के मीडिया प्रमुख (ग्वालियर-चम्बल संभाग) के.के.मिश्रा ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के साथ डबरा विधानसभा क्षेत्र में सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा पुलिस के वाहन क्रमांक MP 03A 6271 में सवार होकर किये गए जनसंपर्क पर घोर आपत्ति जताई है। मिश्रा ने कहा कि यह महज त्रुटि या संयोग नहीं बल्कि पूर्व नियोजित और सबकी जानकारी में व जानबूझ कर किया गया एक असंवैधानिक कार्य है, क्योंकि पुलिस की गाड़ी में पहले से ही तिरंगा ध्वज भी लगा हुआ था।  यदि ऐसा नहीं है तो सरकार/प्रशासन को यह स्पष्ट करना चाहिए कि शिवराज-महाराज के राजनैतिक प्रवास पर पुलिस के वाहन पर राष्ट्रीय ध्वज कैसे-क्यों लगाया गया, क्या पुलिस के वाहन पर राष्ट्रीय ध्वज लगाया जाता है, अथवा सिंधिया प्रदेश के डीजीपी, एडीजी, आईजी, डीआइजी या किसी जिले के एसपी हैं? यदि ऐसा नहीं तो उन्हें पुलिस का वाहन क्यों उपलब्ध कराया गया? प्रशासन का यह रवैया इस बात का स्पष्ट संकेत है कि इस अंचल में निष्पक्ष उपचुनाव असंभव है। उन्होंने मांग की है कि चुनाव की अधिसूचना जारी होने के पूर्व ही समूचे जिले के पुलिस प्रशासन को अविलंब स्थानांतरित किया जाए और पुलिस अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की जाए, जिसको उक्त वाहन आवंटित है। 

Dakhal News

Dakhal News 12 September 2020


morena, Congress leaders, detained before, CM and Scindia

मुरैना। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान और वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया का शनिवार को मुरैना में कार्यक्रम हैं। दोनों नेता यहां कई लोकार्पण और शिलान्यास के कार्यक्रमों में भाग लेने वाले हैं। इससे पहले शनिवार सुबह पुलिस ने कुछ कांग्रेसियों को हिरासत में लिया है। पुलिस को आशंका थी कि ये कांग्रेसी पूर्व नपा अध्यक्ष प्रबल प्रताप मावई के नेतृत्व में मुख्यमंत्री और सिंधिया के आने पर काले झंडे दिखा सकते हैं।पुलिस को सूचना मिली थी कि पूर्व नपा अध्यक्ष प्रबल प्रताप मावई के नेतृत्व में कांग्रेसी कार्यकर्ता मुख्यमंत्री और सिंधिया को काले झंडे दिखा कर विरोध प्रदर्शन कर सकते हैं। इस पर पुलिस ने शनिवार सुबह 10 बजे ही मावई को उनके घर से उठा लिया। मावई ने बताया कि सुबह जब 4 गाड़ियों में सवार पुलिस बल उनके घर आया तो उन्होंने पुलिस से पूछा कि उनका अपराध क्या है। इस पर पुलिस ने कहा कि कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए उन्हें कोतवाली चलना होगा। विरोध प्रदर्शन की आशंका के चलते शहर कांग्रेस के दूसरे नेताओं के घर पर भी निगरानी की जा रही है। इसके अलावा कौन कहां मौजूद है, इसकी जानकारी भी पुलिस ले रही है। काले झंडे दिखाने के लिए मेला मैदान पर खड़े प्रदेश कांग्रेस के पदाधिकारी दिनेश गुर्जर को 50 कांग्रेसियों सहित गिरफ्तार किया गया। वहीं, न्यू हाउसिंग बोर्ड गेट पर खड़े सुमावली विधानसभा के कांग्रेस नेता राम लखन दंडोतिया, अशोक सिकरवार सहित करीब 25 कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

Dakhal News

Dakhal News 12 September 2020


morena, Congress leaders, detained before, CM and Scindia

मुरैना। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान और वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया का शनिवार को मुरैना में कार्यक्रम हैं। दोनों नेता यहां कई लोकार्पण और शिलान्यास के कार्यक्रमों में भाग लेने वाले हैं। इससे पहले शनिवार सुबह पुलिस ने कुछ कांग्रेसियों को हिरासत में लिया है। पुलिस को आशंका थी कि ये कांग्रेसी पूर्व नपा अध्यक्ष प्रबल प्रताप मावई के नेतृत्व में मुख्यमंत्री और सिंधिया के आने पर काले झंडे दिखा सकते हैं।पुलिस को सूचना मिली थी कि पूर्व नपा अध्यक्ष प्रबल प्रताप मावई के नेतृत्व में कांग्रेसी कार्यकर्ता मुख्यमंत्री और सिंधिया को काले झंडे दिखा कर विरोध प्रदर्शन कर सकते हैं। इस पर पुलिस ने शनिवार सुबह 10 बजे ही मावई को उनके घर से उठा लिया। मावई ने बताया कि सुबह जब 4 गाड़ियों में सवार पुलिस बल उनके घर आया तो उन्होंने पुलिस से पूछा कि उनका अपराध क्या है। इस पर पुलिस ने कहा कि कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए उन्हें कोतवाली चलना होगा। विरोध प्रदर्शन की आशंका के चलते शहर कांग्रेस के दूसरे नेताओं के घर पर भी निगरानी की जा रही है। इसके अलावा कौन कहां मौजूद है, इसकी जानकारी भी पुलिस ले रही है। काले झंडे दिखाने के लिए मेला मैदान पर खड़े प्रदेश कांग्रेस के पदाधिकारी दिनेश गुर्जर को 50 कांग्रेसियों सहित गिरफ्तार किया गया। वहीं, न्यू हाउसिंग बोर्ड गेट पर खड़े सुमावली विधानसभा के कांग्रेस नेता राम लखन दंडोतिया, अशोक सिकरवार सहित करीब 25 कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

Dakhal News

Dakhal News 12 September 2020


bhopal,Digvijay expresses, gratitude,Sonia ,permanent invitee member

भोपाल। कांग्रेस आलाकमान ने शुक्रवार देर रात पार्टी संगठन में बड़ा फेरबदल किया है। पार्टी ने कई वरिष्ठ नेताओं को पद से मुक्त कर दिया गया है तो कई नेताओं को बड़ी जिम्मेदारी सौपी गई है। पार्टी ने मप्र के पूर्व सीएम और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह को स्थायी आमंत्रित सदस्य बनाया है। पार्टी का स्थायी आमंत्रित सदस्य बनाए जाने पर दिग्विजय सिंह ने सोनिया गांधी को धन्यवाद देते हुए उनका आभार जताया है।   दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर कहा ‘मुझे कांग्रेस वर्किंग कमेटी का स्थाई आमंत्रित सदस्य मनोनीत करने पर, मैं सोनिया जी का आभारी हूँ। गौरतलब है कि कांग्रेस पार्टी ने राष्ट्रीय स्तर पर बड़ा फेरबदल किया है। इसके पीछे का कारण बीते दिनों हुआ लेटर ब्लास्ट है। जिस का असर अब हुआ है और पार्टी ने शुक्रवार को संगठन में फेरबदल करते हुए कई नेतओं के पद छीन लिए हैं। इनमें गुलाम नबी आजाद, मोतीलाल वोरा सहित कई वरिष्ठ नेताओं का नाम शामिल है।

Dakhal News

Dakhal News 12 September 2020


shivpuri,Kamal Nath government ,cheat farmers and public,Shivraj

शिवपुरी। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, राज्य सभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया और गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने शुक्रवार को शिवपुरी जिले के पोहरी में विभिन्न विकास कार्यों और निर्माण कार्यों का शिलान्यास व भूमि पूजन किया। इस दौरान पोहरी में सरकुला मध्यम सिंचाई योजना का भूमि पूजन किया। यह योजना 226.62 करोड़ की है जिससे 65  हजार हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई होगी।इस मौके पर आयोजित आमसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्य प्रदेश की पूर्व की कांग्रेस सरकार के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने किसानों का ऋण माफ नहीं किया यह किसानों के साथ धोखा किया गया। इसके अलावा हमारी भाजपा सरकार द्वारा चलाई गई कई जनहितेषी योजनाओं को भी बंद करके जनता के साथ धोखा किया। ऐसी धोखे वाली सरकार को ज्योतिरादित्य सिंधिया ने गिराकर अच्छा किया।    सीएम शिवराज ने कहा कि मैं सिंधिया जी को धन्यवाद देते हूं कि ऐसी धोखेबाज सरकार को गिराकर जनता को बचा लिया। इस दौरान सीएम शिवराज सिंह ने आरोप लगाए कि पूर्व की कमलनाथ सरकार ने फसल बीमा योजना की प्रीमियम राशि का भुगतान नहीं किया। अब हमारी सरकार ने यह प्रीमियम राशि का भुगतान किया है। इसके अलावा संबल योजना में हितग्राहियों को दी जाने वाली राशि कमलनाथ सरकार ने बंद कर दी। बेटियों की शादियों को दी जाने वाली मुख्यमंत्री विवाह योजना की राशि कई हितग्राहियों को नहीं मिली। कुल मिलाकर आम आदमी व गरीब परिवारों से जुड़ी कई योजनाओं को कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने बंद कर दिया था। उन्होंने आमसभा में बताया कि हमारी सरकार हर गरीब को एक रुपए किलो में गेंहू व चावल देगी। इसके लिए सभी पात्र हितग्राही अपने नाम जुड़वाए।    जनसेवा सिंधिया परिवार का पहला लक्ष्य- ज्योतिरादित्य सिंधिया राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि सिंधिया परिवार का पहला लक्ष्य जनसेवा है और राजनीति इस जनसेवा का माध्यम है। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि पोहरी विधानसभा का प्रत्येक सदस्य उनके परिवार का हिस्सा है और इस क्षेत्र के विकास के लिए वह हर संभव मदद के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि पोहरी में 226.62 करोड़ रुपए की सरकुला मध्यम परियोजना की मंजूरी मिली है। इससे इस क्षेत्र में विकास को गति मिलेगी।    उन्होंने कि पूर्व की कांग्रेस की कमलनाथ सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि पूर्व की सरकार में केवल भ्रष्टाचार हुआ। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि पूर्व की सरकार का शिष्टाचार केवल भ्रष्टाचार बन गया था। विकास के काम कुछ नहीं हो रहे थे लेकिन अब वह और शिवराज सिंह मिलकर इस क्षेत्र में विकास को गति देंगे। इसकी शुरूआत भी हो गई है। पोहरी में करोड़ों रुपए के विकास कार्यों को मंजूरी मिली है। इनका भूमिपूजन और शिलान्यास आज हो रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह द्वारा एक क्लिक के माध्यम से आहार योजना के तहत सहरिया परिवार की 50 हजार से ज्यादा महिलाओं के खाते में एक-एक हजार रुपए की राशि के आवंटन पर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने उनका आभार व्यक्त किया।    विकास को आगे बढ़ाना है- नरेंद्र सिंह तोमर  इस मौके पर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि कांग्रेस की 15 महीने की सरकार में विकास का पहिया थम गया था अब विकास को आगे बढ़ाने के लिए जनता के सहयोग की जरूरत है और केंद्र पूरी मदद करने के लिए तैयार है। उन्होंने क्षेत्र की जनता से आने वाले समय में होने वाले उपचुनाव में भाजपा को जिताने की अपील करते हुए कहा कि जनता शिवराज सिंह के कामों को आगे बढ़ाने के लिए उनके हाथों को मजबूत करे।    उन्होंने कहा कि पूर्व में हमारी सरकार के समय सरकुल मध्यम सिंचाई परियोजना को प्रशासकीय स्वीकृति मिली थी  लेकिन कमलनाथ सरकार ने इस प्रोजेक्ट को ठंडे बस्ते में डाल दिया। अब हमारी भाजपा सरकार सत्ता में दोबारी आई तो इसकी स्वीकृति मिली और अब इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू हो रहा है। इस मौके पर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा सहित भाजपा के कई वरिष्ठ नेता और जनप्रतिनिधि गण मौजूद रहे। इस मौके पर प्रदेश के पीडब्ल्यूडी राज्य मंत्री सुरेश राठखेड़ा ने कहा कि वह पहलेे जब कमलनाथ के पास योजनाएं लेकर जाते थे तो उनके पास टाईम नहीं था। कहते थे चलो-चलो, लेकिन अब शिवराज सरकार में कुछ ही महीनों में पोहरी विधानसभा क्षेत्र में करोड़ों के विकास कार्य मंजूर हो गए हैं। उन्होंने कहा कि शिवराज और ज्योतिरादित्य सिंधिया की जोड़ी के एक साथ होने से विकास कार्यों को गति मिलेगी। 

Dakhal News

Dakhal News 11 September 2020


bhopal, Prime Minister ,Narendra Modi , provide 1.75 lakh families

भोपाल। प्रदेश में 15 महीनों तक रही कांग्रेस की सरकार ने अगर कोई काम किया है, तो वो है गरीबों से उनके हक छीनने का। इस सरकार ने गरीबों की योजनाएं तो बंद कर ही दी थीं, उनके लिए स्वीकृत हुए 2 लाख 43 हजार प्रधानमंत्री आवास लौटा कर लाखों गरीबों के सिर से छत भी छीन ली थी। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान अब प्रदेश के दो लाख गरीबों को अपने घर की सौगात देंगे। लाखों गरीब परिवारों का अपने घर का सपना साकार करते हुए प्रधानमंत्री श्री मोदी और मुख्यमंत्री श्री चौहान 12 सितम्बर को इन गरीबों को नए, पक्के घर में गृहप्रवेश कराएंगे। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री विष्णुदत्त शर्मा ने शुक्रवार को मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा के दौरान कही। श्री शर्मा ने पत्रकार वार्ता में बताया कि भारतीय जनता पार्टी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के 70 वें जन्मदिवस को सेवा सप्ताह के रूप में मनाएगी। इसके अलावा पं. दीनदयाल उपाध्याय एवं राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती पर भी सेवा कार्यों का आयोजन किया जाएगा। डिजिटल प्लेटफॉर्म पर होगा गृह प्रवेशम कार्यक्रमप्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान प्रधानमंत्री आवास योजना के दो लाख हितग्राहियों को 12 सितम्बर को गृह प्रवेश कराएंगे। कोरोना संकट को देखते हुए गृह प्रवेशम नामक यह कार्यक्रम डिजिटल प्लेटफॉर्म पर आयोजित किया जाएगा। कार्यक्रम शनिवार सुबह 11.00 बजे पूरे प्रदेश में एक साथ आयोजित किया जाएगा।   सेवा सप्ताह के रूप में मनेगा प्रधानमंत्री श्री मोदी का 70 वां जन्मदिवसप्रदेश अध्यक्ष श्री शर्मा ने बताया कि प्रधानमंत्री श्री मोदी ने शपथ लेते ही पं. दीनदयाल उपाध्याय के अंत्योदय के संकल्प को लेकर काम शुरू किया और अल्पसमय में ही उन्होंने वंचितों, पिछड़ों, शोषितों और गरीबों को समर्पित कई योजनाओं को धरातर पर उतारा। इसलिए उनका 70 वां जन्मदिवस पूरे प्रदेश में सेवा सप्ताह के रूप में मनाया जाएगा और इस दौरान जो सेवा कार्य किए जाएंगे, उनका फोकस भी इसी वर्ग पर केंद्रित रहेगा। उन्होंने बताया कि इस दौरान 14 से 20 सितम्बर तक विभिन्न सेवा कार्यों का आयोजन किया जाएगा। प्रधानमंत्री के जन्मदिवस 17 सितम्बर को कोविड अस्पतालों में गाइडलाइन का पालन करते हुए फलों का वितरण किया जाएगा। इस सप्ताह के दौरान प्रत्येक मंडल में 70 दिव्यांगों को कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरणों का वितरण, 70 गरीब भाइयों-बहनों को चश्मे का वितरण, 70 कोरोना संक्रमितों को प्लाज्मा डोनेशन कराना, प्रदेश में युवा मोर्चा द्वारा 70 रक्तदान शिविरों का आयोजन, प्रत्येक बूथ स्तर पर 70 पौधों का रोपण एवं उनके संरक्षण का संकल्प लेना, प्रत्येक जिले के 70 गांवों में स्वच्छता अभियान एवं प्लास्टिक से मुक्ति का संकल्प दिलाना, प्रत्येक जिला मुख्यालय में 70 सार्वजनिक स्थानों पर स्वच्छता का कार्य, प्रधानमंत्री श्री मोदी के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर 70 वर्चुअल कांफ्रेंस का आयोजन तथा सोशल मीडिया के माध्यम से प्रधानमंत्री द्वारा किए गए कार्यों पर केंद्रित 70 स्लाइडों की प्रदर्शनी को प्रसारित किये जाने आदि के कार्य किये जाएंगे। श्री शर्मा ने बताया कि इसके अलावा प्रदेश सरकार द्वारा प्रधानमंत्री के जन्मदिवस को गरीब कल्याण सप्ताह के रूप में मनाएगी, जिसकी शुरुआत प्रधानमंत्री के जन्मदिवस की पूर्व संध्या पर 37 लाख  लोगों को पात्रता पर्ची वितरण के साथ होगी। पं. दीनदयाल उपाध्याय के जन्मदिवस से बापू की जयंती तक चलेंगे कार्यक्रमप्रदेश अध्यक्ष श्री शर्मा ने बताया कि पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयंती 25 सितम्बर से ‘आत्मनिर्भर भारत’ के संकल्प को जन-जन तक पहुंचाने का अभियान शुरू किया जाएगा, जो राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती 02 अक्टूबर तक चलेगा। इस दौरान आत्मनिर्भर भारत की थीम पर केंद्रित विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। वहीं, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती पर 02 अक्टूबर को स्व. बापू के सिद्धांतों स्वदेशी, खादी, स्वाबलंबी, सादगी तथा स्वच्छता के बारे में जनजागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

Dakhal News

Dakhal News 11 September 2020


indore,Congressmen protested, smacking dummy peacock

इंदौर। कोरोना के बढ़ते मरीज, अस्पतालों में बेड की कमी, बेरोजगारी और गिरती जीडीपी को लेकर शुक्रवार को कांग्रेसियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विरोध में प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रधानमंत्री का मुखौटा लगाए कांग्रेसियों ने डमी मोर को दाना चुगाया। कांग्रेसियों का कहना था कि हम कोरोना संक्रमित देशों की सूची में दूसरे नंबर पर आ गए हैं और प्रधानमंत्री मोर को दाना चुगा रहे हैं।   प्रदेश कांग्रेस सचिव विवेक खंडेलवाल ने कहा कि देश में कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। हम सबसे संक्रमित देशों की लिस्ट में दूसरे नंबर पर आ गए हैं। प्रधानमंत्री ने मार्च में लॉकडाउन किया,  जबकि राहुल गांधी ने फरवरी में ही सरकार को चेताया था कि आने वाले छह महीने देश के लिए काफी विपदा वाले हैं। इसके बावजूद सरकार ने ध्यान नहीं दिया। मोदी जी ने कहा 18 दिन में महाभारत का युद्ध जीता जा सकता है,  आप मुझे 21 दिन दीजिए। इसके बाद पहला लॉकडाउन, दूसरा लॉकडाउन और धीरे-धीरे चार लॉकडाउन हो गए। अब पांचवां अनलॉक होने जा रहा है, लेकिन अब रोज एक लाख मरीज आ रहे हैं। मप्र में रोज 2 हजार से ज्यादा तो इंदौर में 300 से ज्यादा मरीज आ रहे हैं।   अस्पतालों में जगह नहीं, श्मशान में जल रही 15-15 लाशें प्रदेश कांग्रेस सचिव खंडेलवाल ने कहा कि शहर के अस्पतालों में जगह नहीं है। श्मशान में एक दिन में 15-15 लाशें जल रही हैं। लाशें जलाने तक के लिए दो से तीन घंटे तक इंतजार करना पड़ रहा है। केंद्र सरकार कोरोना पर नियंत्रण के लिए कोई प्रयास नहीं कर रही है। ऊपर से मोदी जी मोर के साथ खेल रहे हैं। कोरोनाकाल में प्रदेश की ऐसी हालत के बाद भी उपचुनाव को लेकर मुख्यमंत्री रैलियां कर रहे हैं। देश में बेरोजगारी चरम पर है। जीडीपी 24 फीसदी गिर चुकी है। अस्पताल वाले इलाज के नाम पर 10 से 15 लाख रुपए वसूल रहे हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री से कोविड -19 से आमजन को राहत देने के लिए कड़े कदम उठाने की मांग की।

Dakhal News

Dakhal News 11 September 2020


guna, want development, win BJP: Sisodia

गुना। क्षेत्र का विकास सिर्फ भाजपा ही कर सकती है। कारण पार्टी का विश्वास विकास और जनकल्याण में है। भाजपा सरकार का उद्देश्य ही है सबका साथ, सबका विश्वास। इसलिए आप लोग भी अगर क्षेत्र में विकास चाहते तो भाजपा को जिताएं। यह आग्रह ग्रामीणों से गुुरुवार को पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री महेन्द्र सिंह सिसौदिया ने किया।    सिसौदिया बमौरी विधानसभा क्षेत्र में किए जा रहे दौरों के तहत गुरुवार को भी कई ग्रामीण क्षेत्रों में जनसंपर्क कर रहे थे। इस दौरान उन्होने जहां ग्रामीणों से चर्चा की तो विकास कार्यों की सौगातें भी दीं। एक ही दिन में पंचायत मंत्री ने 9 करोड़ लागत से ज्यादा विभिन्न निर्माण कार्यो का भूमिपूजन किया।    कई गांवों में पहुंचे सिसौदिया    बमोरी क्षेत्र के भ्रमण के दौरान पूनमखेड़ी, जमरा, सगोरिया, खजूरी, सेंधुआ, शाहपुर, नसीरा, पदमनखेड़ी, म्याना तथा रीछई में जनसंपर्क किया एवं विकासीय कार्यो का भूमिपूजन किया। भ्रमण के दौरान उन्होंने ग्रामीणों की समस्याएं सुनी तथा उनका शीघ्र निराकरण कराए जाने का आश्वासन दिया। इस दौरान उन्होने कहा कि   प्रदेश में किसानों, गरीबों, महिलाओं और युवाओं के हित में कार्य करने वाली सरकार प्रदेश के चहुंमुखी विकास और जनकल्याण के कार्य सरकार की प्राथमिकता में है।    विकास की दीं सौगातें   भ्रमण के दौरान पंचायत मंत्री ने 5 करोड़ 50 लाख 68 हजार रुपये की लागत से 8 किमी. लंबे पूनमखेडी से म्याना व्हाया जमरा मार्ग भूमिपूजन, 2 करोड़ 64 लाख 41 हजार रुपये की लागत से 3.5 किलोमीटर लंबे मार्ग का भूमिपूजन, 47 लाख 10 हजार रुपये की लागत से 0.6 किमी. लंबे सगोरिया से प्रधानमंत्री सडक़ जमरा मार्ग भूमिपूजन तथा 57 लाख रूपये की लागत से 1600 मीटर लंबे म्याना में नईसरांय रोड से रीछई मार्ग डामरीकरण कार्य का भूमिपूजन किया। 

Dakhal News

Dakhal News 10 September 2020


bhopal, Destructive forces, want, stop development, chariot of Surkhi region,Govind Singh Rajput

भोपाल। विगत पांच माहों में भाजपा कार्यकाल के दौरान सुरखी विधानसभा क्षेत्र में विकास का रथ तीव्र गति से चल रहा है जिसे कुछ विध्नसंतोषी ताकतें षडय़ंत्रपूर्वक रोकना चाहती हैं। यह बात प्रदेश के राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने कही। वह ग्राम तोड़ातरफदार में भाजपा के सेक्टर कार्यकर्ता मिलन समारोह को संबोधित कर रहे थे। श्री राजपूत ने कहा कि विगत पांच माहों में सुरखी विधानसभा के प्रत्येक अंचल में 250 करोंड़ के कार्य स्वीकृत हो चुके हैं। यह बड़ी सौगात प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान ने दी है। भाजपा सरकार ने किसानों की अतिवृष्टि, पीला मौजिक बीमारी में खराब हुई सोयाबीन की फसलों आदि को लेकर व्यापक सर्वे का आदेश जारी कर दिया है यह आपदा की राशि बैंकों में जमा हो जाएगी। गोविंद सिंह राजपूत ने तोड़ातरफदार ग्राम वासियों एवं कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि बदली हुई परिस्थितियों में आपके बीच आना पड़ा है। इस अवसर पर मंच पर लक्ष्मण सिंह, दीपक शर्मा, पूर्व सरपंच भैया राजा, योगेश ठाकुर, धर्मेंद्र लालसा, ऋषिराज, वीरेंद्र, लीलाधर पटेल, महेश तिवारी, इमरत, नरेश मुकदम, हरनाम सिंह सागोनी, मुन्ना महाराज, जितेंद्र सिंह, बलराम गौतम, अशोक सिंह अरविंद त्रिपाठी उपस्थित रहे। दर्जनों युवाओं ने ली भाजपा की सदस्यता तोड़ातरफदार के कार्यकर्ता मिलन समारोह के दौरान दर्जनों युवाओं ने परिवहन एवं राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के हाथों भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। सदस्यता लेने वालों में रामबरन फुले, साहब सिंह,  कालू राम, कैलाश अहिरवार, लटूरी अहिरवार, शंकर सिंह, राकेश अहिरवार, बालमुकुंद अहिरवार, नीलेश, टीकाराम, राधे प्रजापति आदि कई युवा शामिल हैं। इस अवसर पर स्थानीय कार्यकर्ताओं में नाथूराम, डब्बू भाटिया, राकेश सिंह, विजय बहादुर, शेर सिंह, मुन्नालाल, बाबूलाल संजय सिंह, नीलेश यादव, माधव कुर्मी, रामराज, सोहेल खान, भूपेंद्र यादव, राजकुमार, राजू, बसंत बाबू राम सहित सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद थे। स्थानीय धोषणाएं इस अवसर पर परिवहन एवं राजस्व मंत्री श्री सिंह ने क्षेत्र के विकास के लिए करोड़ों की घोषणा की। उन घोषणाओं में ग्राम टोला में हाई स्कूल निर्माण 1 करोड़,  मंगल भवन 6 लाख, बाउंड्री वाल 10 लाख, पंचायत भवन  12 लाख, दो स्थानों पर आंगनवाड़ी के लिए 15 लाख, तोड़ा नदी घाट के लिए 86 लाख, पड़रिया गांव स्टॉप डैम के लिए 12 करोड़, काली प_ा में 13 करोड़ 86 लाख का स्टॉप डेम, ग्राम सेवन में 6 लाख मंगल भवन के लिए, पुलिया निर्माण के लिए 3 लाख 65 हजार, एक और पुल के निर्माण 3 लाख 44 हजार, तथा ठाकुर बाबा से हरिजन मोहल्ला की ओर जाने वाली रोड के लिए 15 लाख, ग्राम ठकरई में 29 लाख रुपए की नल जल योजना, मंगल भवन के लिए 6 लाख, मंदिर निर्माण 1 लाख, सडक़ निर्माण के लिए 41 लाख, रिछई में 26 लाख की नल जल योजना, बाउंड्री वाल के लिए 80 लाख, रविदास मंदिर के लिए 1 लाख, 26 लाख करौंदा मार्ग के लिए, परासिया में मंगल भवन के लिए 26 लाख, 50 लाख करीला मार्ग के लिए स्वीकृत किए।

Dakhal News

Dakhal News 10 September 2020


gwalior, Higher education minister ,took meeting , principals in JU

ग्वालियर। कोरोना काल में बच्चों को शिक्षित करने के लिए ऑनलाइन पढ़ाई पद्धति अपनाई गई है और परीक्षाएं भी कराई जा रही हैं। यह एक अच्छा प्रयास है। हम सभी को ऑनलाइन पढ़ाई पर जोर देना चाहिए और इसे आगे बढ़ाना चाहिए। क्योंकि इस तरह का संकट कभी भी आ सकता है। संकट के दौर में ऑनलाइन पढ़ाई कराने से बच्चे पिछड़ेंगे नहीं और पढ़ाई का नुकसान भी नहीं होगा। यह बात गुरुवार को जीवाजी विश्वविद्यालय के टंडन हॉल में अंचलभर के प्राचार्यों की बैठक लेते हुए प्रदेश सरकार के उच्च शिक्षा मंत्री मोहन सिंह यादव ने कही।   विश्वविद्यालय में मंत्री के पहुंचने पर कुलपति प्रो. संगीता शुक्ला, कुलसचिव आनंद मिश्रा, आईके मंसूरी सहित जनसंपर्क अधिकारी केशव सिंह गुर्जर ने स्वागत किया। मंत्री यादव ने बैठक लेकर कहा कि सेल्फ फाइनेंस कोर्सों को ज्यादा से ज्यादा अपनाएं और इन्हें आगे बढ़ाएं, जिससे विद्यार्थियों को फायदा हो सके। मंत्री ने सभी प्राचार्यों से कहा कि परीक्षा सावधानीपूर्वक कराएं और इस महामारी से बचाव करने के लिए कॉलेजों में पर्याप्त इंतजाम होने चाहिए। सेनेटाइजर की मशीनें सभी कॉलेजों में लगनी चाहिए। इस दौरान उन्होंने निर्माण कार्यों को लेकर भी कहा कि जिन महाविद्यालयों में निर्माण कार्य चल रहे हैं, उन्हें तेजी के साथ पूरा कराएं और किसी भी तरह की लापरवाही सामने आती है तो इसके लिए प्राचार्य जिम्मेदार होंगे।    जीवाजी विश्वविद्यालय के विभिन्न संकायों के प्रभारियों की बैठक लीऔर इस दौरान उन्होंने रिसर्च को बढ़ाने की बात कही। इस दौरान उन्होंने जीवाजी विश्वविद्यालय में संचालित कोर्सों की जानकारी ली। इस बैठक में कुलपति संगीता शुक्ला के अलावा कार्यपरिषद के सदस्य मोनू सोलंकी, वीरेन्द्र गुर्जर, अनूप अग्रवाल सहित कईलोग मौजूद थे।    जेयू के कर्मचारियों ने दिया ज्ञापन   उच्च शिक्षा मंत्री मोहन सिंह यादव से जीवाजी विश्वविद्यालय के दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों ने चर्चा कर ज्ञापन देते हुए अपन विभिन्न समस्याओं को गिनाया। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों को स्थायी किया जाए, जिस पर मंत्री ने भरोसा दिलाया कि जल्द से जल्द उन्हें स्थायी करने का काम किया जाएगा। साथ ही जो भी समस्याएं होंगी उनका समाधान करने के लिए चर्चा करेंगे।   पदाधिकारियों से की मुलाकात   गुरुवार की सुबह प्रदेश सरकार के उच्च शिक्षा मंत्री मोहन सिंह यादव ने जीवाजी विश्वविद्यालय में प्राचार्यों की बैठक लेने से पहले सर्किट हाउस में पहुंचकर भाजपा के पदाधिकारियों से चर्चा की तो कॉलेजों के प्रोफेसरों से भी मुलाकात कर उनकी समस्याओं को सुना। इस दौरान कई लोगों ने ज्ञापन दिए जिस पर उन्होंने कहा कि जो भी संभव होगा किया जाएगा।

Dakhal News

Dakhal News 10 September 2020


bhopal, lack of oxygen, government considering options,Minister Bhupendra Singh

भोपाल। प्रदेश में ऑक्सीजन का संकट गहराने से प्रशासन और स्वास्थ्य महकमे में हडक़ंप मच गया है। राजधानी भोपाल के कलेक्टर अविनाश लवानिया ने मेडिकल और इंडस्ट्री ऑक्सीजन सप्लायर्स के साथ बैठक कर सख्त निर्देश दिए हैं। वहीं प्रदेश के नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने ऑक्सीजन की कमी को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि सरकार विकल्पों पर भी विचार कर रही है।   मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने गुरुवार को मीडिया से बातचीत करते हुए प्रदेश में हुई मेडिकल ऑक्सीजन की कमी पर कहा कि यह बात ध्यान में आई है कि कुछ ऑक्सीजन की सप्लाई में दिक्कत हुई है। इसका प्लांट महाराष्ट्र में है तथा कुछ आपूर्ति में कठिनाई आ रही है। इस संबंध में माननीय मुख्यमंत्री की वहां के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से बात हो गई होगी। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश को ऑक्सीजन की कमी ना हो और विकल्पों पर भी सरकार विचार कर रही है। साथ में मध्य प्रदेश कांग्रेस के नेताओं से भी आग्रह करेंगे कि महाराष्ट्र में उनकी सरकार है इसलिए वह भी उद्धव ठाकरे से बात करें कि मध्यप्रदेश की ऑक्सीजन ना रोकी जाए।   इसके अलावा नगरीय प्रशासन मंत्री ने राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष की मंत्रियों को चेतावनी देने पर कहा कि इस तरह की कोई बात नहीं हुई है। कल संगठन राष्ट्रीय महामंत्री बी.एल. संतोष ने अनेकों बैठक ली है उसमें माननीय मंत्रियों की भी बैठक थी। मंत्रियों की बैठक में पूर्ण रूप से किसी को दो तो किसी को एक विधानसभा का दायित्व सौंपा गया है। उसकी समीक्षा संतोष जी ने की है और सभी से यह आग्रह और निर्देश दिए हैं कि जिसको जिस विधानसभा का दायित्व दिया गया है वहां अधिकतम समय दें।   उपचुनाव की नहीं चिंता, तैयारी पूरीमंत्री भूपेन्द्र सिंह ने उपचुनाव की चिंता के सवाल पर कहा कि चिंता नहीं है। हम लोगों की तैयारी कई महीनों से चल रही है। हम लोग सभी 27 सीटों पर चुनाव जीत रहे हैं, परंतु चुनाव प्रबंधन में किसी प्रकार की कमी ना रह जाए इसके लिए हमारा राष्ट्रीय नेतृत्व और प्रदेश का नेतृत्व लगातार समीक्षा करता है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री तो सभी जगह जा रहे हैं, अभी बाढ़ के समय भी वह छिंदवाड़ा, होशंगाबाद, सीहोर भी गए। यहां पर तो कोई उपचुनाव था नहीं अभी जिन विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव है उसके समय रहते जो शासकीय कार्यक्रम है। वह आचार संहिता से पहले पूरे हो जाए इसलिए यह कार्यक्रम बने हैं।

Dakhal News

Dakhal News 10 September 2020


bhopal, Shivraj Singh ,reduce stamp duty, entire state, instead surcharge, Ajay Singh

भोपाल। शिवराज सरकार द्वारा रियल स्टेट सेक्टर को बूस्ट करने के लिए दी गई सरचार्ज में छूट को लेकर राजनीति शुरू हो गई है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता अजयसिंह ने इसका विरोध किया है। उन्होंने कहा है कि मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को सरचार्ज के बजाय पूरे प्रदेश में स्टाम्प ड्यूटी कम करना चाहिए।    पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजयसिंह ने कहा है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने ज़मीनों, मकानों की रजिस्ट्री पर लगने वाला सरचार्ज केवल नगरीय क्षेत्रों में दो प्रतिशत कम करके ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले किसानों को फिर से ठगा है। किसानों के हित में यह छूट तो पूरे प्रदेश में दी जाना चाहिए थी। यह निर्णय एक ही प्रदेश में रहने वाली जनता के साथ भेदभाव और दोहरा व्यवहार है। उन्होंने कहा कि अव्वल तो यह निर्णय कुछ खास लोगों के फायदे के लिये लिया गया है। सरचार्ज में छूट साल दो साल के लिए न देकर केवल साढ़े तीन महीने के लिए, यानी 31 दिसंबर तक के लिए ही दी जा रही है। इसका क्या कारण है ? जाहिर है कि आगामी उपचुनाव में लोगों को लुभाने के लिए यह भेदभाव पूर्ण निर्णय लिया गया है।   वरिष्ठ नेता अजयसिंह ने कहा कि यदि भाजपा सरकार वाकई रियल स्टेट में मंदी से चिन्तित है तो उसे यह छूट स्टाम्प ड्यूटी पर कम से कम एक साल के लिए पूरे प्रदेश में एक समान रूप से देना चाहिए ताकि अधिकतम लोग इसका लाभ ले सकें। पूरे देश में मध्यप्रदेश ही ऐसा राज्य है जहां पड़ोसी राज्यों से ज्यादा स्टाम्प शुल्क लिया जाता है। महाराष्ट्र में मात्र चार प्रतिशत स्टाम्प ड्यूटी लगती है। सिंह ने कहा कि सरचार्ज में दो प्रतिशत छूट का थोड़ा बहुत फायदा केवल उन लोगों को मिलेगा जिनके पास जमा पूंजी है और जो तुरन्त खरीद फरोख्त में सक्षम हैं।

Dakhal News

Dakhal News 9 September 2020


bhopal, Kamal Nath ,only concerned, development state,Vishnudutt Sharma

पन्ना। तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ सिर्फ छिदवाड़ा के लिये काम करते थे। कमलनाथ जी को सिर्फ छिदवाड़ा की वोटों की चिन्ता रही और यही कारण है कि उन्होंने बहुत बड़े बजट के निर्माण कार्य केवल छिदवाड़ा के लिये स्वीकृत किये। उन्हें प्रदेश के अन्य जिलों की चिन्ता नहीं थी और न उन्होंने प्रदेश के विकास में रुचि ली। तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ पन्ना के लिए स्वीकृत एग्रीकल्चर कालेज को भी छिदवाड़ा ले गये थे,  जिसे फिर से पन्ना वापस लाने के प्रयास किए जा रहे हैं। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष  विष्णुदत्त शर्मा ने मंगलवार को पन्ना में मीडिया से बातचीत के दौरान कही। विष्णुदत्त शर्मा शाहनगर, पवई, अमानगंज होते हुए मंगलवार सुबह पन्ना पहुंचे। जिले की सीमा पर पार्टी कार्यकर्ताओं ने उनका भव्य स्वागत किया।   विकास के मुद्दे पर लड़ेंगे चुनाव और जीतेंगे प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि कमलनाथ नाममात्र के मुख्यमंत्री थे। कांग्रेस की उस सरकार को पर्दे के पीछे से दिग्विजयसिंह चलाते रहे। कांग्रेस की सरकार ने हर वर्ग को धोखा दिया। किसानों की ऋणमाफी नहीं हुई। यही वजह है कि प्रदेश की जनता आज भी कांग्रेस से नाराज है। शर्मा ने कहा कि हम आने वाला उपचुनाव विकास के मुद्दे पर लड़ेंगे और 15 महीनों में कांग्रेस ने जो भ्रष्टाचार किया है,  उसे जनता के बीच में रखेंगे। उन्होंने कहा कि हमारी विजय सुनिश्चित है। हम सभी 27 सीटें जीतेंगे और मध्यप्रदेश को एक स्थायी सरकार देंगे।अंतरकलह से गिरी कांग्रेस सरकारशर्मा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी अंतरकलह के कारण खत्म हो रही है। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार अपनी अंतरकलह के चलते गिरी है, इसके लिए भाजपा दोषी नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार उसकी गलतियों की वजह से गिरी है। उन्होंने जनता से किए गए वादे पूरे नहीं किये। कांग्रेस की सरकार से जनता नाराज थी, पार्टी के नेता नाराज थे। यही कारण था कि सरकार से विधायक अलग हुये और सरकार गिर गई। उन्होंने कहा कि जब कमलनाथ की सरकार थी,  तब उनके ही मंत्रीमंडल के मंत्री, नेता उनकी कार्यपद्धति पर प्रश्न खड़े करते रहे। शर्मा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के लोग अपना नेता ही नहीं चुन पा रहे हैं।  कभी राहुल तो कभी सोनिया गांधी पार्टी की अध्यक्ष बन रही हैं।पन्ना का विकास मेरी प्राथमिकता शर्मा ने कहा कि पन्ना जिले का विकास मेरी प्राथमिकता है। उन्होंने कहा किसी भी कीमत पर पन्ना में कृषि महाविधालय बनेगा।  पन्ना में पर्यटन की संभावनायें है, हम पन्ना को पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित करेंगे। पन्ना में ऐसी व्यवस्था की जायेगी कि जो भी व्यक्ति टाईगर रिजर्व जाये वह पन्ना से होकर जाये। उन्होंने कहा कि पन्ना की पहचान हीरा और एन.एम.डी.सी. प्रोजेक्ट है। इन दोनों में समन्वय बनाकर जिले का विकास किया जायेगा। शर्मा ने कहा कि हमारी सरकार प्रत्येक वर्ग की चिंता करने वाली सरकार है। हमारी सरकार ने शिक्षाकर्मियों व रोजगार सहायकों की चिन्ता की है,  तो निश्चित ही अतिथि विद्वान व अतिथि शिक्षकों की भी चिंता हमारी सरकार करेगी।  शर्मा ने कहा कि कोरोना काल में मुख्यमंत्री जी व भाजपा का संगठन ने लोगों की जिस तरह से मदद की, उसके लिये मैं संगठन के कार्यकर्ताओं का व सरकार का आभार व्यक्त करता हूं।

Dakhal News

Dakhal News 8 September 2020


bhopal, Kamal Nath ,only concerned, development state,Vishnudutt Sharma

पन्ना। तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ सिर्फ छिदवाड़ा के लिये काम करते थे। कमलनाथ जी को सिर्फ छिदवाड़ा की वोटों की चिन्ता रही और यही कारण है कि उन्होंने बहुत बड़े बजट के निर्माण कार्य केवल छिदवाड़ा के लिये स्वीकृत किये। उन्हें प्रदेश के अन्य जिलों की चिन्ता नहीं थी और न उन्होंने प्रदेश के विकास में रुचि ली। तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ पन्ना के लिए स्वीकृत एग्रीकल्चर कालेज को भी छिदवाड़ा ले गये थे,  जिसे फिर से पन्ना वापस लाने के प्रयास किए जा रहे हैं। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष  विष्णुदत्त शर्मा ने मंगलवार को पन्ना में मीडिया से बातचीत के दौरान कही। विष्णुदत्त शर्मा शाहनगर, पवई, अमानगंज होते हुए मंगलवार सुबह पन्ना पहुंचे। जिले की सीमा पर पार्टी कार्यकर्ताओं ने उनका भव्य स्वागत किया।   विकास के मुद्दे पर लड़ेंगे चुनाव और जीतेंगे प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि कमलनाथ नाममात्र के मुख्यमंत्री थे। कांग्रेस की उस सरकार को पर्दे के पीछे से दिग्विजयसिंह चलाते रहे। कांग्रेस की सरकार ने हर वर्ग को धोखा दिया। किसानों की ऋणमाफी नहीं हुई। यही वजह है कि प्रदेश की जनता आज भी कांग्रेस से नाराज है। शर्मा ने कहा कि हम आने वाला उपचुनाव विकास के मुद्दे पर लड़ेंगे और 15 महीनों में कांग्रेस ने जो भ्रष्टाचार किया है,  उसे जनता के बीच में रखेंगे। उन्होंने कहा कि हमारी विजय सुनिश्चित है। हम सभी 27 सीटें जीतेंगे और मध्यप्रदेश को एक स्थायी सरकार देंगे।अंतरकलह से गिरी कांग्रेस सरकारशर्मा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी अंतरकलह के कारण खत्म हो रही है। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार अपनी अंतरकलह के चलते गिरी है, इसके लिए भाजपा दोषी नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार उसकी गलतियों की वजह से गिरी है। उन्होंने जनता से किए गए वादे पूरे नहीं किये। कांग्रेस की सरकार से जनता नाराज थी, पार्टी के नेता नाराज थे। यही कारण था कि सरकार से विधायक अलग हुये और सरकार गिर गई। उन्होंने कहा कि जब कमलनाथ की सरकार थी,  तब उनके ही मंत्रीमंडल के मंत्री, नेता उनकी कार्यपद्धति पर प्रश्न खड़े करते रहे। शर्मा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के लोग अपना नेता ही नहीं चुन पा रहे हैं।  कभी राहुल तो कभी सोनिया गांधी पार्टी की अध्यक्ष बन रही हैं।पन्ना का विकास मेरी प्राथमिकता शर्मा ने कहा कि पन्ना जिले का विकास मेरी प्राथमिकता है। उन्होंने कहा किसी भी कीमत पर पन्ना में कृषि महाविधालय बनेगा।  पन्ना में पर्यटन की संभावनायें है, हम पन्ना को पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित करेंगे। पन्ना में ऐसी व्यवस्था की जायेगी कि जो भी व्यक्ति टाईगर रिजर्व जाये वह पन्ना से होकर जाये। उन्होंने कहा कि पन्ना की पहचान हीरा और एन.एम.डी.सी. प्रोजेक्ट है। इन दोनों में समन्वय बनाकर जिले का विकास किया जायेगा। शर्मा ने कहा कि हमारी सरकार प्रत्येक वर्ग की चिंता करने वाली सरकार है। हमारी सरकार ने शिक्षाकर्मियों व रोजगार सहायकों की चिन्ता की है,  तो निश्चित ही अतिथि विद्वान व अतिथि शिक्षकों की भी चिंता हमारी सरकार करेगी।  शर्मा ने कहा कि कोरोना काल में मुख्यमंत्री जी व भाजपा का संगठन ने लोगों की जिस तरह से मदद की, उसके लिये मैं संगठन के कार्यकर्ताओं का व सरकार का आभार व्यक्त करता हूं।

Dakhal News

Dakhal News 8 September 2020


bhopal, Congress leader ,submitted memorandum,home minister

भोपाल। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता मुनव्वर कौसर ने मंगलवार को गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा से उनके आवास पर भेंट कर उन्हें ज्ञापन सौंपते हुए मंदिर और मस्जिद को शत प्रतिशत खोलकर 100 से अधिक लोगों की अनुमति देने की मांग की है। कौसर ने अपने ज्ञापन में कहां कि अब कोरोना की वजह से लगाई गई पाबंदियों को धीरे-धीरे खत्म किया जा रहा है। मगर अब भी मंदिर और मस्जिद शत-प्रतिशत नहीं खुल रहे हैं जिससे श्रद्धालुओं को पूजा-पाठ और इबादत के लिए परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।   कौसर ने गृह मंत्री से अधिक श्रद्धालुओं को पूजा और इबादत करने की अनुमति के आदेश करने की मांग की है। गृह मंत्री से कौसर को आश्वासन देते हुए कहा कि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दुर्गा उत्सव एवं दुर्गा जी की प्रतिमाओं में सौ श्रृद्धालुओं को पूजा करने की अनुमति प्रदान की है। और भी भारत के कुछ धार्मिक स्थल पर पांच सौ श्रद्धालुओं को पूजा-दर्शन इबादत करने की अनुमति मिल चुकी है। उसी तरह भोपाल सहित पूरे प्रदेश में भी सभी धर्मों के धर्म स्थानों पर सौ से अधिक श्रद्धालुओं को पूजा और इबादत करने की अनुमति दी जाए।

Dakhal News

Dakhal News 8 September 2020


katni, BJP workers,should beware, Congress

कटनी। भारतीय जनता पार्टी ने कोरोना के कठिन समय में जिस सामाजिक दायित्व को निभाया उसकी प्रशंसा आज हर तरफ की जा रही है। मध्यप्रदेश के भाजपा कार्यकर्ता गरीबों की सेवा में जी जान से जुटे रहे। लेकिन अब उन्हें कांग्रेसियों के झूठ, छल, प्रपंच से सावधान रहने की जरूरत है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने सोमवार को कटनी में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कही।   कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए शर्मा ने कहा कि जब-जब किसी भी तरह के चुनाव आते हैं कांग्रेस की झूठ की फैक्ट्री शुरू हो जाती है। कांग्रेस नेता झूठ की अंतराष्ट्रीय दुकान हैं, जिनसे भाजपा को सावधान रहने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि हमारे देश के प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी जी मुख्यमंत्री शिवराज जी निरन्तर जनता की सेवा में लगे हैं। बेरोजगार, किसान व्यवसायी, मजदूर गरीब और मध्यमवर्गीय लोगों सहित हर वर्ग को केंद्र व राज्य सरकारों के निर्णय लाभ पहुंचा रहे हैं। हमारे कार्यकर्ताओ को भी पॉलिटिकल होना पड़ेगाशर्मा ने कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि अब हमारे कार्यकर्ताओं को भी पॉलिटिकल होना पड़ेगा। विपक्ष जिस ढंग से आम जनता को गुमराह कर रहा है, वह हमारे कार्यकर्ताओं के धैर्य की परीक्षा लेने के समान है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार और पार्टी ने जनता की लिए जितना कुछ किया है, अब समय आ गया है कि कार्यकर्ता अपनी सरकार की उपलब्धियों को जनता तक पहुंचाएं। पूरी 27 सीटें जीतेगी भाजपा पत्रकारों से बातचीत करते हुए प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि आने वाले उपचुनाव में जनता कांग्रेस को उसके झूठे वादों और दावों के लिए सबक सिखाने को तैयार है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी आगामी उप चुनाव में सभी 27 सीटों पर विजय हासिल करेगी। शर्मा ने कहा कि प्रदेश में कोरोना की दस्तक के बाद भी कांग्रेस सरकार आइफा अवार्ड की तैयारियों में व्यस्त रही। न तो किसानों के कर्जे माफ हुए न ही बेरोजगारी भत्ता मिला। हर मोर्चे पर कमलनाथ सरकार पूरी तरह से फ्लॉप हुई। कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने सम्बल जैसी योजना को बन्द करने का पाप किया और गरीबों की बद्दुआओं के चलते ही कांग्रेस अपनी सरकार गवां बैठी। शर्मा ने कहा कि अब कांग्रेस इसके लिए भाजपा को दोष देती है, जबकि उसके नेता ही कांग्रेस की सरकार से त्रस्त हो गए थे। उन्होंने कहा कि आने वाला चुनाव सिर्फ एक सीट जीतने का चुनाव नहीं, यह तो पूरे मध्यप्रदेश को बचाने का चुनाव है। 15 महीनों के छल और झूठ को जवाब देने का चुनाव है।

Dakhal News

Dakhal News 7 September 2020


bhopal,Many social leaders,Bada Malhra, region joined Congress

भोपाल। मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले के बड़ा मलहरा क्षेत्र के कई समाज प्रमुखों व गणमान्य जनों ने सोमवार को पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ की उपस्थिति में विधायक तरवर लोधी के नेतृत्व में कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि कमलनाथ सरकार में बड़ा मलहरा क्षेत्र में विकास के कई कार्य हुए हैं, उसी से प्रभावित होकर व 15 माह के कमलनाथ सरकार के कामों से प्रभावित होकर आज हम कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर रहे हैं।प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने उनका स्वागत करते हुए कहा कि कांग्रेस उनके सम्मान का सदैव ख्याल रखेगी। आप सभी कांग्रेस की मजबूती के लिये मैदान में जुट जाये और भाजपा की वैमनस्य व नफरत वाली नीतियो को कड़ा जवाब दे। कांग्रेस में शामिल होने वालों में प्रमुख रूप से मुकेश सिंह लोधी, जिला उपाध्यक्ष लोधी समाज छतरपुर, लखनलाल लोधी, पूर्व सरपंच, रवडिय़ा पाल, अध्यक्ष पाल समाज बड़ा मलहरा, हरगोविंद सोनी अध्यक्ष सोनी समाज बड़ा मलहरा, मिठाई लाल सिंह लोधी, ब्लॉक अध्यक्ष लोधी सेना, गंगा प्रसाद खरे, अध्यक्ष खरे समाज व उनके बड़ी संख्या में समर्थक शामिल थे। इस अवसर पर पूर्व मंत्री हर्ष यादव, पूर्व मंत्री सचिन यादव, विधायक तरवर लोधी भी उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 7 September 2020


bhopal, Jitu Patwari ,expressed grief , Ratlam gang rape,Jungle Raj

भोपाल। मध्य प्रदेश के रतलाम जिले की पलाश पंचायत अंतर्गत ग्राम भैरूपाड़ा में 13 साल की मासूम के साथ सामूहिक बलात्कार की घटना को लेकर मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया अध्यक्ष और पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने दु:ख व्यक्त किया है। जीतू पटवारी ने सोमवार को एक बयान जारी कर भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश में एक बार फिर जंगल राज कायम हो गया है। उन्होंने कहा कि देश में महिला अत्याचार, बलात्कार के साथ ही मासूमों के साथ दुष्कृत्य के मामलों में मध्य प्रदेश पिछले बीजेपी शासन काल में देश में नम्बर वन पर था। वही एक बार फिर प्रदेश में छेड़छाड़, हत्या, अपहरण और बलात्कार के मामले लगातार बढ़ रहे है।   जीतू पटवारी ने कहा कि एनसीआरबी की रिपोर्ट के अनुसार साल 2018 में देश में बलात्कार की कुल 33,356 घटनाएं दर्ज की गई थी। इनमें से 5,433 घटनाएं (करीब 16 प्रतिशत) मध्य प्रदेश में हुईं, जिनमें पीडि़ताओं में छह साल से कम उम्र की 54 बच्चियां भी शामिल थी। वहीं साल 2016 और वर्ष 2017 में भी मध्य प्रदेश बलात्कार के मामलों में देश में नंबर एक पर था। वर्ष 2016 में प्रदेश में 4,882 बलात्कार की घटनाएं हुई थीं, जबकि वर्ष 2017 में प्रदेश में 5,562 घटनाएं हुईं। रतलाम जिले में 13 साल की मासूम का अपहरण कर सामूहिक बलात्कार कर हत्या कर देने की घटना के आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग जीतू पटवारी ने की है।   पूर्व मंत्री और कांग्रेस कमेटी के मीडिया अध्यक्ष जीतू पटवारी ने कहा कि जंगल राज में जहाँ एक तरफ प्रदेश का अन्नदाता आत्महत्या करने को मजबूर है तो दूसरी तरफ महिलाएं और बच्चियाँ प्रदेश में सुरक्षित नहीं है। जीतू पटवारी ने कहा कि आप अपने आप को प्रदेश के बच्चों का मामा कहते है और उन्हें अपना भांजा-भांजी कहते नहीं थकते अरे आप कैसे मामा है जो आपके राज में मासूम सुरक्षित नहीं। युवा बेरोजगार, किसान आत्महत्या करने को मजूबर है तो दूसरी तरफ मासूम बच्चियों के साथ बलात्कार और सामूहिक दुष्कृत्य हो रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की राजधानी भोपाल भी इससे सुरक्षित नहीं है यहाँ दरिंदे आवारा घूम रहे है, लेकिन पुलिस आंखे बंद कर बैठी है, आप कांग्रेस की कमलनाथ सरकार में मासूम बच्ची के बलात्कार के मामले में सीएम हाउस का घेराव करते है लेकिन खुद गद्दी पर बैठकर उस मासूम को न्याय नहीं दिला पा रहे, आखिर शिवराज जी आप क्यों प्रदेश को शवराज बनाने पर तुले है।    

Dakhal News

Dakhal News 7 September 2020


ashoknagar, Jaibardhan said, "The sellers are sold, we will write new history"

  अशोकनगर। में राधौगढ़ का विधायक अगर जनता के वोट को गिरवी रखकर 35 करोड़ रुपये खा लेता तो मेरे क्षेत्र की जनता मुझे कभी भी माफ नहीं करती। राधौगढ़ और चंदेरी में उप चुनाव इसलिये नहीं हो रहे, क्यों कि वहां के विधायक नहीं बिके।  लोकतंत्र में कोई राजा-महाराजा नहीं होता जनता ही राजा होती है।    यह बात राधौगढ़ के विधायक एवं पूर्व मंत्री जयबर्धन सिंह ने शनिवार को यहां उनके आगमन पर अभूतपूर्व स्वागत के दौरान कही।ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा में शामिल होने के पश्चात उनके कथित गढ़ में उप चुनाव के मद्देनजर राधौगढ़ राजघराने से जयबर्धन सिंह की यहां पहली रैली थी, जहां हजारों वाहनों का काफिला और उनका आतिशी स्वागत देखने काबिल रहा। जैसा कि निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार उन्हें यहां से मुंगावली जाना था, पर शहर के वायपास होते हुए वे यहां से गुजरे तो उनके स्वागत में स्वागत द्वारों से पूरा वायपास दुल्हन की तरह सजा हुआ नजर आया।    अब राधौगढ़ जैसे रहेंगे संबंध:इस स्वागत आयोजन के दौरान जयबर्धन सिंह ने कहा कि जिस दिन यहां के विधायकों ने इस्तीफा दिया था, मैने तय कर लिया था कि जैसे हमारे संबंध आरोन-राधौगढ़ के लोगों से हैं अब वैसे ही संबंध यहां के लोगों से रहेंगे। उन्होंने कहा कि आज से इस क्षेत्र में नए इतिहास की शुरूआत है। जयबर्धन सिंह ने जनता से सवाल करते हुए कहा कि क्या अभी उप चुनाव होना थे? उन्होंने कहा कि राधौगढ़-चंदेरी के विधायक नहीं बिके इसलिये वहां चुनाव नहीं होना है, अगर में राधौगढ़ का विधायक जनता के वोट को गिरवी रख कर 35 करोड़ रुपये खा लेता तो राधौगढ़ की जनता मुझे काफी माफ नहीं करती। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में कोई राजा-महाराजा नहीं होता जनता ही राजा और महाराजा होती है। तथा कहा कि विधायक का कत्र्तव्य होता है कि 5 साल तक वह जनता की सेवा करे, ना कि जनता वोट गिरवी रखे। जयबर्धन सिंह ने कहा कि अभी तो ये शुरूआत है, हम यहां नया इतिहास लिखेंगे। भाजपा में शामिल होने के बाद नहीं आये सिंधिया:कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल होने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भले ही कुछ दिन पूर्व भोपाल में टाइगर अभी जिंदा है कि हुंकार भरी हो, पर असलियत ये है कि उन्होंने 17 साल वे इस संसदीय क्षेत्र के सांसद रहे पर भाजपा में शामिल होने के पश्चात अब तक अपने क्षेत्र में उनका आगमन नहीं हो सका है, जबकि अशोकनगर में दो और गुना में एक उप चुनाव होना है, जबकि इसके बावजूद उनके कथित गढ़ में राधौगढ़ राजघराने से जयबर्धन सिंह ने जबर्दस्त रूप से आमद दर्ज करा दी है।  

Dakhal News

Dakhal News 5 September 2020


bhopal, Model Mandi Act ,cheating farmers, small traders, employees, Ajay Singh

भोपाल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि शिवराज सरकार ने माडल मण्डी एक्ट अधिनियम लाकर लाखों किसानों, हम्मालों, मंडी कर्मचारियो और छोटे छोटे अनाज व्यापारियों के साथ बहुत बड़ा धोखा किया है। जिन आढ़तियों और साहूकारों के चंगुल से किसानों को बचाने के लिए कांग्रेस सरकारों ने कृषि मण्डियों की व्यवस्था बनायी थी उसे भाजपा सरकार ने पूरी तरह से ध्वस्त कर दिया है ।   अजय सिंह ने शनिवार को जारी अपने बयान में कहा कि प्रदेश की सभी लगभग 550 मण्डियां किसानों के लिए प्राणवायु आक्सीजन की तरह है, जहां वे अपने आपको सुरक्षित महसूस करते हैं । क्या सरकार ने माडल मण्डी एक्ट लाने के पहले यह सोचा कि अब व्यापारी लोग सिंडीकेट बनाकर मनमाने दाम पर किसानों की उपज खरीदेंगे । उन्हें समय पर पैसा देंगे? क्या वे समर्थन मूल्य पर कम ग्रेड का सारा अनाज खरीद लेंगे? या फिर केवल मोटा दाना ही लेंगे? प्याज खरीदी का सबसे बड़ा उदाहरण हमारे सामने है। किसानों से दो रुपये किलो प्याज खरीद कर उसे 40 से 60 रुपये किलो तक बेचा गया ।   अजय सिंह ने कहा शिवराज सरकार ने कभी नही सोचा कि एक्ट के विरोध में अचानक दस हजार किसान, हम्माल और मण्डी कर्मचारी राजधानी में एकत्र कैसे हो गये ? यह भविष्य में होने वाले अनर्थ का संकेत है । उन्होंने कहा कि एक्ट में पूरे प्रदेश में एक ही लाइसेंस से व्यापार करने का प्रावधान है। जाहिर है कि सरकार दबाव में काम कर रही है। इससे प्रदेश के छोटे व्यापारी मारे जायेंगे और मण्डियों से रोजी रोटी चलाने वाले बेकार हो जायेंगे | मण्डी से जुड़े लोगों की हड़ताल से प्रदेश में कृषि उपज की खरीद फरोख्त तीन चार दिनों से ठप्प हो गई है । सब्जी और फलों के दाम आसमान छू रहे हैं । सिंह ने कहा कि पूर्व में बीजेपी सरकार के ही दो पूर्व कृषि मंत्री और बाद में कांग्रेस सरकार के कृषि मंत्री इस प्रस्ताव को खारिज कर चुके थे । अब पता नहीं किस लॉबी के दबाव में माडल मण्डी एक्ट लाया जा रहा है ।

Dakhal News

Dakhal News 5 September 2020


bhopal, Model Mandi Act ,cheating farmers, small traders, employees, Ajay Singh

भोपाल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि शिवराज सरकार ने माडल मण्डी एक्ट अधिनियम लाकर लाखों किसानों, हम्मालों, मंडी कर्मचारियो और छोटे छोटे अनाज व्यापारियों के साथ बहुत बड़ा धोखा किया है। जिन आढ़तियों और साहूकारों के चंगुल से किसानों को बचाने के लिए कांग्रेस सरकारों ने कृषि मण्डियों की व्यवस्था बनायी थी उसे भाजपा सरकार ने पूरी तरह से ध्वस्त कर दिया है ।   अजय सिंह ने शनिवार को जारी अपने बयान में कहा कि प्रदेश की सभी लगभग 550 मण्डियां किसानों के लिए प्राणवायु आक्सीजन की तरह है, जहां वे अपने आपको सुरक्षित महसूस करते हैं । क्या सरकार ने माडल मण्डी एक्ट लाने के पहले यह सोचा कि अब व्यापारी लोग सिंडीकेट बनाकर मनमाने दाम पर किसानों की उपज खरीदेंगे । उन्हें समय पर पैसा देंगे? क्या वे समर्थन मूल्य पर कम ग्रेड का सारा अनाज खरीद लेंगे? या फिर केवल मोटा दाना ही लेंगे? प्याज खरीदी का सबसे बड़ा उदाहरण हमारे सामने है। किसानों से दो रुपये किलो प्याज खरीद कर उसे 40 से 60 रुपये किलो तक बेचा गया ।   अजय सिंह ने कहा शिवराज सरकार ने कभी नही सोचा कि एक्ट के विरोध में अचानक दस हजार किसान, हम्माल और मण्डी कर्मचारी राजधानी में एकत्र कैसे हो गये ? यह भविष्य में होने वाले अनर्थ का संकेत है । उन्होंने कहा कि एक्ट में पूरे प्रदेश में एक ही लाइसेंस से व्यापार करने का प्रावधान है। जाहिर है कि सरकार दबाव में काम कर रही है। इससे प्रदेश के छोटे व्यापारी मारे जायेंगे और मण्डियों से रोजी रोटी चलाने वाले बेकार हो जायेंगे | मण्डी से जुड़े लोगों की हड़ताल से प्रदेश में कृषि उपज की खरीद फरोख्त तीन चार दिनों से ठप्प हो गई है । सब्जी और फलों के दाम आसमान छू रहे हैं । सिंह ने कहा कि पूर्व में बीजेपी सरकार के ही दो पूर्व कृषि मंत्री और बाद में कांग्रेस सरकार के कृषि मंत्री इस प्रस्ताव को खारिज कर चुके थे । अब पता नहीं किस लॉबी के दबाव में माडल मण्डी एक्ट लाया जा रहा है ।

Dakhal News

Dakhal News 5 September 2020


bhopal, BJP leaders ,CM Shivraj salute , birth anniversary , Dr. Sarvepalli Radhakrishnan

भोपाल। देश के भूतपूर्व राष्ट्रपति और महान शिक्षाविद डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन की आज शनिवार को जयंती है। उनका जन्म 5 सितम्बर 1888 को तमिलनाडु के तिरुरनी गांव में हुआ था। वे बड़े शिक्षक, राजनयिक के साथ ही भारतीय संस्कृति के संवाहक और महान दार्शनिक और प्रख्यात शिक्षाविद थे। उनकी इच्छा थी कि उनके जन्मदिन को शिक्षक दिवस के रुप में मनाया जाए। तब से उनके जन्मदिन के अवसर पर हर साल शिक्षक दिवस मनाया जाता है। इसकी शुरूआत 1962 में हुई थी। इस वर्ष देश 58वां शिक्षक दिवस मना रहा है।   पूर्व राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती पर आज उन्हें पूरा देश याद कर रहा है। मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत भाजपा नेताओं ने भी डा राधाकृष्णन को जयंती पर स्मरण करते हुए शिक्षा के क्षेत्र में उनके अविस्मरणीय योगदान को याद किया है। सीएम शिवराज ने ट्वीट कर कहा ‘ज्ञान हमें शक्ति देता है, प्रेम हमें परिपूर्णता देता है- डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन। भारतीय संस्कृति के संवाहक, प्रख्यात शिक्षाविद, महान दार्शनिक, भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी की जयंती#TeachersDay पर उनके चरणों में कोटिश: नमन! एक अन्य ट्वीट कर उन्होंने कहा ‘डॉ. राधाकृष्णन जी के प्रखर विचारों के प्रकाश से आलोकित मार्ग पर बढ़ते हुए हम सब देश की प्रगति व उन्नति के लिए अविराम कार्य करते रहेंगे। आइये, हम सब उनकी जयंती #TeachersDay पर संकल्प लें कि उनके सपनों के शिक्षित, समर्थ, अलौकिक भारत के निर्माण के स्वप्न को साकार करेंगे।   भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने ट्वीट कर कहा ‘प्रख्यात शिक्षाविद, पूर्व राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी की जयंती पर उन्हें शत शत नमन। जीवन के हर पड़ाव पर अपनी शिक्षा से हमारे भविष्य को दिशा देने वाले सभी शिक्षकों को आदार पूर्वक नमन।   भाजपा राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने डॉ राधाकृष्णन को नमन करते हुए कहा ‘जयंती पर सादर नमन !!! शिक्षक वह नहीं जो छात्र के दिमाग में तथ्यों को जबरन ठूंसे, बल्कि वास्तविक शिक्षक तो वह है जो उसे आने वाले कल की चुनौतियों के लिए तैयार करें। 'भारत रत्न' डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी।   प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने अपने ट्वीट में कहा ‘जीवनभर खुद को शिक्षक मानने वाले पूर्व राष्ट्रपति और भारत रत्न डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन विश्व को एक स्कूल मानते थे। उन्होंने अपनी पुस्तकों और भाषणों से दुनिया को भारतीय दर्शनशास्त्र से परिचित कराया। प्रख्यात शिक्षाविद डॉ.राधाकृष्णन की जयंती पर नमन और श्रद्धांजलि।

Dakhal News

Dakhal News 5 September 2020


indore, Congress has cheated ,every section, state,Silvassa

इंदौर। मध्यप्रदेश में विधानसभा की रिक्त 27 सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर सियासी पारा गर्म है। दोनों ही दलों के नेता एक-दूसरे के खिलाफ आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं। इसी क्रम में अब प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने कांग्रेस पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के जाने के बाद कांग्रेस में बचा क्या है? कांग्रेस धरातल में चली गई है। उसने प्रदेश के हर वर्ग को छला है।   दरअसल, मंत्री तुलसी सिलावट शुक्रवार को पूर्व वन मंत्री स्व. निर्भय सिंह पटेल की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने भाजपा नेताओं और कार्यकर्ता की मौजूदगी में राजीव गांधी चौराहा स्थित स्वर्गीय पटेल को प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया। इस अवसर पर उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा कि जनता की सेवा करना और उनके सुख-दुख में खड़े रहना, समाज के हर वर्ग की चिंता करना और समाज हित में काम करना ही दादा की पहचान है, जो आज भी प्रेरणादायी है। उन्होंने कहा कि कृषक नेता के तौर पर स्व. पटेल ने समाज के हर वर्ग का ध्यान रखा है।   इस अवसर पर उन्होंने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि 2018 का चुनाव भाजपा ने 'माफ करो महाराज हमारे नेता शिवराज' स्लोगन पर लड़ा था। अब जब ज्योतिरादित्य सिंधिया भाजपा में शामिल हो गए हैं, उनके साथ कांग्रेस के 27 विधायक भाजपा में आ गए तो ऐसे में आरोप लगाना बेबुनियाद है। अब कांग्रेस के नेता सिंधिया से पूछ रहे हैं कि 2 लाख रुपये के कर्जमाफी का क्या हुआ, जबकि कांग्रेस ने किसानों, युवाओं, बेटियों, और अतिथि विद्वान सभी के साथ छल किया है। पूरे प्रदेश के साथ छल किया है।   सिलावट ने अतिवृष्टि से खराब हुई फसलों को लेकर कहा कि प्राकृतिक आपदा की वजह से किसानों की फसल खराब हुई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने संबंधित अधिकारियों को किसानों के नुकसान संबंधी जानकारी जुटाने और सर्वे के निर्देश दिए हैं। इस संकट में पूरी सरकार इनके साथ खड़ी है। किसानों ने अनुरोध है कि जो भी सर्वे करने आए वह पंचायत, ओटले या किसी के घर पर बैठकर सर्वे न करे। सीधे खेत में जाएं। यह किसान जरूर देखें, ताकि किसानों को बीमे का ज्यादा से ज्यादा लाभ मिल सके।   इस अवसर पर प्रदेश भाजपा की महामंत्री कविता पाटीदार ने कहा कि आज जो संगठन खड़ा है, उसमें दादा की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने घर-घर जाकर कार्यकर्ताओं को एकजुट कर संगठन को खड़ा किया है। उनके दिखाए मार्ग पर ही आज भी नेता और कार्यकर्ता काम कर रहे हैं। दादा ने राजनीति में कई आदर्श स्थापित किए हैं। आज भी युवा पीढ़ी के लिए वे प्रेरणा स्त्रोत है।

Dakhal News

Dakhal News 4 September 2020


indore, Congress has cheated ,every section, state,Silvassa

इंदौर। मध्यप्रदेश में विधानसभा की रिक्त 27 सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर सियासी पारा गर्म है। दोनों ही दलों के नेता एक-दूसरे के खिलाफ आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं। इसी क्रम में अब प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने कांग्रेस पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के जाने के बाद कांग्रेस में बचा क्या है? कांग्रेस धरातल में चली गई है। उसने प्रदेश के हर वर्ग को छला है।   दरअसल, मंत्री तुलसी सिलावट शुक्रवार को पूर्व वन मंत्री स्व. निर्भय सिंह पटेल की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने भाजपा नेताओं और कार्यकर्ता की मौजूदगी में राजीव गांधी चौराहा स्थित स्वर्गीय पटेल को प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया। इस अवसर पर उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा कि जनता की सेवा करना और उनके सुख-दुख में खड़े रहना, समाज के हर वर्ग की चिंता करना और समाज हित में काम करना ही दादा की पहचान है, जो आज भी प्रेरणादायी है। उन्होंने कहा कि कृषक नेता के तौर पर स्व. पटेल ने समाज के हर वर्ग का ध्यान रखा है।   इस अवसर पर उन्होंने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि 2018 का चुनाव भाजपा ने 'माफ करो महाराज हमारे नेता शिवराज' स्लोगन पर लड़ा था। अब जब ज्योतिरादित्य सिंधिया भाजपा में शामिल हो गए हैं, उनके साथ कांग्रेस के 27 विधायक भाजपा में आ गए तो ऐसे में आरोप लगाना बेबुनियाद है। अब कांग्रेस के नेता सिंधिया से पूछ रहे हैं कि 2 लाख रुपये के कर्जमाफी का क्या हुआ, जबकि कांग्रेस ने किसानों, युवाओं, बेटियों, और अतिथि विद्वान सभी के साथ छल किया है। पूरे प्रदेश के साथ छल किया है।   सिलावट ने अतिवृष्टि से खराब हुई फसलों को लेकर कहा कि प्राकृतिक आपदा की वजह से किसानों की फसल खराब हुई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने संबंधित अधिकारियों को किसानों के नुकसान संबंधी जानकारी जुटाने और सर्वे के निर्देश दिए हैं। इस संकट में पूरी सरकार इनके साथ खड़ी है। किसानों ने अनुरोध है कि जो भी सर्वे करने आए वह पंचायत, ओटले या किसी के घर पर बैठकर सर्वे न करे। सीधे खेत में जाएं। यह किसान जरूर देखें, ताकि किसानों को बीमे का ज्यादा से ज्यादा लाभ मिल सके।   इस अवसर पर प्रदेश भाजपा की महामंत्री कविता पाटीदार ने कहा कि आज जो संगठन खड़ा है, उसमें दादा की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने घर-घर जाकर कार्यकर्ताओं को एकजुट कर संगठन को खड़ा किया है। उनके दिखाए मार्ग पर ही आज भी नेता और कार्यकर्ता काम कर रहे हैं। दादा ने राजनीति में कई आदर्श स्थापित किए हैं। आज भी युवा पीढ़ी के लिए वे प्रेरणा स्त्रोत है।

Dakhal News

Dakhal News 4 September 2020


guna, Congress free , Digvijay ,Kamal Nath ,after by-elections, BD Sharma

गुना। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष बीडी शर्मा ने कहा कि इस चुनाव में प्रदेश दिग्विजय सिंह और कमलनाथ से तो मुक्त होगा ही कांग्रेस से भी मुक्त होगा। कांग्रेस की 15 माह की सरकार में प्रदेश की जनता त्रस्त हो गई थी, खुद ज्योतिरादित्य सिंधिया और कांग्रेस के विधायक मंत्री परेशान थे कि वह जनता से जिन वादों को करके सरकार में आए हैं  वह पूरे नहीं हो रहे हैंं जनता को वह क्या जवाव दें। इसी से परेशान होकर सिंधिया जी ने प्रदेश की सरकार को गिराया।    शर्मा शुक्रवार को बमौरी विधानसभा के प्रमुख कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित कर रहे थे। इस  मौके पर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर प्रमुख रुप से मौजूद थे। शर्मा ने  कहा  2003 तक कांग्रेस ने दस साल शासन किया और पूरे प्रदेश को बंटाधार कर दिया। प्रदेश में न सडक़ थी और न बिजली पानी। भाजपा नेताओं ने संघर्ष कर वर्ष 2003 में कांग्रेस की सरकार को बदला। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह और भाजपा के अथक प्रयास से प्रदेश बीमारु राज्य से विक सित राज्य बना। लेकिन पिछल 15 माह की सरकार में प्रदेश एक बार फिर वही रास्ते पर चलने लगा था। इसके चलते प्रदेश के ज्योतिरादित्य सिंधिया और प्रदेश के 22 विधायकों ने प्रदेश और यहां की जनता के हित में फैसला लिया और कमलनाथ सरकार को गिरा दिया। उन्होंने कहा कि यह सरकार स्थित रहे और पूरे पांच साल चल,यह जिम्मेदारी अब आम कार्यकर्ता की  है। इसलिए बमौरी क्षेत्र के प्रत्येक कार्यक र्ता की जिम्मेदारी है कि यह उपचुनाव वह पूरी ताकत से लड़े और पार्टी को विजय वनाएं।   प्रत्याशी महेंद्र सिंह नहीं पार्टी का प्रत्येक कार्यकर्ता    भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि बमौरी विधानसभा का उम्मीदवार महेंद्र सिंह सिसोदिया नहीं है बल्कि पार्टी के प्रत्येक कार्यकर्ता हैं इसलिए यह चुनाव महेंद्र सिंह सिसोदिया नहीं लड़ रहे हैं बल्कि पार्टी का प्रत्येक कार्यकर्ता लड़ रहा है। बूथ स्तर का कार्यकर्ता एक जुट होकर इस चुनाव को लड़ेंगे तो हमारी जीत निश्चिित है।    अब परिवार बढ़ गया है इसलिए ताकत दुगनी हो गई   प्रदेशाध्यक्ष शर्मा ने कहा कि भाजपा की पिछले कुछ सालों में लगातार ताकत बढ़ी है और वह देश के किसी भी कौने में मजबूती से चुनाव लडऩे में सक्षम है। हाल ही में कांग्रेस का  एक बढ़ा धड़ा ज्योतिरादित्य सिंधिया के नेतृत्व में भाजपा में शामिल हुआ है। इससे पार्टी की ताकत दुगनी हो गई है। इस दुगनी ताकत के साथ हम चुनाव लड़ेंगे तो हमे हराने वाला कोई नहीं है।    कांग्रेस ने बंद कर दी थीं सभी योजनाएं   प्रदेशाध्यक्ष बीडी शर्मा ने कहा कि 15 माह की कांग्रेस सरकार धोखे और खलावे की सरकार थी जिसने किसानों  को कर्जमाफी के नाम पर छला और बेरोजगारों को धोखा दिया। उन्होंने कहा कि कमलनाथ सरकार ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कार्यकाल में चलाई गईं सभी जनकल्याणकारी योजनांए ठप कर दी। जिसमें संबल योजना,कन्यादान योजना,मेधावी छात्र योजना से लेकर पीएम आवास योजना की एक चौथाई  किश्त नहीं भरी,जिससे  सवा दो लाख गरीब मकान से बंचित रह गए। शिवराज सरकार आने के बाद यह योजनाएं फिर से लागू  हुईं है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि वह गांव में जाकर प्रदेश सरकार की जनकल्याण कारी योजनाओं को बताएं और कमलनाथ सरकार के धोखे और छलावे का खुलासा करें।      समंजस्य और समरसता बनाकर बढ़ी ताकत का उपयोग करें    केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि इस बार चुनाव की परिस्थितियां विपरीत हैं,पहले चुनाव की घोषणा होती थी बाद में उम्मीदवार,इस बार उम्मीदवार पहले घोषित हो गए  हैं। चुनाव की घोषणा बाद में होगी। भाजपा की ताकत भी इस बार बढ़ी है,एक बड़ा परिवार टूटकर भाजपा में शामिल हुआ है। इसलिए ताकत हमारी बढ़ गई। इस ताकत का सही उपयोग और इस्तेमाल हो इसके लिए जरूरी है कि हम समन्वय और सामाजस्य बनाएं। इसके लिए हमे बड़ा दिल करके आने वालों का स्वागत करना होगा।उन्होंने कहा कि जहां संकीर्णता होती है वहां उद्ेश्य की प्राप्ति नहीं होती। इसलिए  बड़ा ह्दय करें और सभी को स्वीकारें।उन्होंने कहा कि भाजपा इतनी मजबूत हो गई है कि उसके लिए कुछ भी असंभव नहीं है। उन्होंने कहा कि हमने विपरीत परिस्थतियों में चुनाव में काम किया है अब परिस्थितियां अपने अनुकूल हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 4 September 2020


bhopal, Jitu Patwari, taunt government, rise from politics, take care

  भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया अध्यक्ष, पूर्व मंत्री और कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी ने प्रदेश में अन्नदाता किसानों की समस्या को लेकर प्रदेश की शिवराज सरकार से गुहार लगाई है। उन्होंने शुक्रवार को एक बयान जारी कर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से कहा है कि कांग्रेस और भाजपा की राजनैतिक विचारधारा से ऊपर उठकर हमें प्रदेश के पालनहार किसानों के विषय में सोचने की जरूरत है। जीतू पटवारी ने कहा कि आप किसान को अपना भगवान कहते हैं। लेकिन आप अपने इस भगवान के साथ कर क्या रहे हैं? आपकी पिछली सरकार में किसानों पर गोलियां चलाई गई, किसानों के बच्चों को जेल भेजा गया, टीकमगढ़ में किसानों को नंगा करके मारा गया। आपके राज में सबसे ज्यादा आत्महत्या किसानों ने की है यह सर्वविदित है।   कांग्रेस कमेटी के मीडिया अध्यक्ष जीतू पटवारी ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि आपने सरकार में आते ही किसानों की कर्जमाफी योजना समाप्त कर दी, किसानों का कर्ज आपकी सरकार खा गई। कमलनाथ सरकार ने बिजली के बिल जो आधे किए थे, वह फिर आपकी सरकार ने बढ़ा दिए हैं जो किसानों के लिए सिर दर्द बने हुए है। किसानों पर यातनाएं बढ़ गई है। आपने पिछले साल मांग की थी कि सोयाबीन की खराब फसल पर 40 हजार रुपए प्रति हेक्टेयर मुआवजा सरकार दे। लेकिन सरकार में आते ही आप मुआवजे की बात आते ही बीमा की बात करने लगते है एक तरफ किसान आपके द्वारा सरकार हथियाने के चक्कर में अपना कर्ज नहीं चुका सका और अब वह अपनी फसलों का बीमा नहीं करवा पा रहा है, क्योंकि उसका खाता ओवर ड्राफ्ट हो गया है।   जीतू पटवारी ने बड़े दु:खी मन से मुख्यमंत्री से पूछा कि आप किस तरीके से अपने भगवान को यातना देने पर तुले है। मैं एक किसान का बेटा होने के नाते आपसे निवेदन करता हूँ कि राजनैतिक पार्टीयों की विचारधारा से ऊपर उठकर हमें एक सोच के साथ प्रदेश के अन्नदाता की मदद करना चाहिए। जीतू पटवारी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से निवेदन किया कि आज प्रदेश के किसान को सरकार की सहायता की जरूरत है हमें उनकी मदद करनी चाहिए। जीतू पटवारी ने मांग की है कि किसानों को सोयाबीन की फसल खराब होने पर 40 हजार रूपए प्रति हेक्टेयर के हिसाब से सरकार मुआबजा दे और बढ़े हुए बिजली के बिलों को माफ करें।  

Dakhal News

Dakhal News 4 September 2020


bhopal, Former CM, Kamal Nath, wishes Finance Minister, Deora, get well soon

भोपाल। मध्यप्रदेश के वित्त एवं वाणिज्यिक कर मंत्री जगदीश देवड़ा हृदय संबंधी समस्या के चलते दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती हैं, जहां उनका उपचार जारी है। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है।   पूर्व सीएम कमलनाथ ने गुरुवार को ट्वीट करते हुए कहा है कि - ‘प्रदेश के वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा के अस्वस्थ होने की जानकारी मिली है। ईश्वर से उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूँ।’ वहीं, दूसरे ट्वीट में उन्होंने पूर्व मंत्री सुखदेव पांसे के भी शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है। उन्होंने लिखा है कि पूर्व मंत्री सुखदेव पांसे के अस्वस्थ होने की जानकारी मिली है। ईश्वर से उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूँ।’   बता दें कि प्रदेश के वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा हृदय संबंधी बीमारी के चलते दिल्ली के अस्पताल में भर्ती हैं। उन्होंने स्वयं बुधवार को ट्वीट के माध्यम से इसकी जानकारी दी थी। उन्होंने लिखा था कि-'चिकित्सकीय परामर्श के बाद बीते दिवस मेरी एंजियोप्लास्टी नयी दिल्ली में हुयी। आपकी शुभकामनाओं एवं ईश्वर कृपा से अब स्वस्थ हूं और स्वास्थ्य लाभ ले रहा हूं। मैं विनम्रतार्पूक आग्रह करना चाहता हूं कि आगामी एक दो दिवस दूरभाष पर बात करने में असमर्थता रहेगी। आप सभी भी अपना ख्याल करें। मैं जल्द ही पूर्णत: ठीक होकर आप सभी के बीच पहुुुंचूंगा।’

Dakhal News

Dakhal News 3 September 2020


dewas, Chief Minister, flood victims, Nemawar , giving relief amount

देवास/नेमावर। प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मंगलवार को देवास जिले के नेमावर पहुंचे तथा बाढ़ पीडितों को सम्‍बोधित करते हुए मुख्‍यमंत्री ने कहा कि सम्‍पूर्ण नेमावर क्षेत्र बाढ़ से प्रभावित रहा है। हर व्‍यक्ति जो बाढ़ से प्रभावित हुआ है उसके मकान, खेतों, अनाज, राशन एवं अन्‍य नुकसान का सर्वे कर उचित राहत राशि हितग्राहियों को दी जायेगी।    इस अवसर पर उन्‍होंने घोषणा की कि केन्‍द्रीय मंत्री नितिन गडकरी से बात करके नेमावर में फ्लायओवर ब्रिज का निर्माण कराया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार जनता के लिए है और सरकार बाढ प्रभावितों को राहत राशि देने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी। मुख्‍यमंत्री ने बताया कि वे 5 दिनों के भीतर दूसरी बार खातेगांव आये है। पूर्व में सोयाबीन फसल की खराब स्थिति को देखने आये थे और आज बाढ़ प्रभावितों का दुख बांटने आये है। उन्‍होंने कहा कि प्रदेश की तवा, बारना, शक्कर नदी एवं नर्मदा नदी में बाढ़ आने से उससे संबंधित जिलों की स्थिति बिगड़ गई। दो-दो मंजिला मकान बाढ़ में डूब गये।    उन्‍होंने बताया कि वे स्‍वयं रात भर जागकर उन्होंने बाढ़ की स्थिति पर निगरानी रखी। जिला प्रशासन पर सख्‍ती बरती, यह स्थिति ऐसी थी की यदि निरन्‍तर नजर न रखी तो भारी तबाही मचा सकती थी। रात के दो से तीन बजे के बीच अपनी जान बचाकर पेडों पर बैठे लोगों को एनडीआरएफ एवं एसडीआरएफ की टीम ने सुरक्षित निकाला। 300 लोगों का रेस्‍कयू करके उन्‍हें हैलिकाप्‍टर द्वारा सुरक्षित स्‍थान पर पहुंचाया गया।    चौहान ने कहा कि मुझे इस बात का संतोष है कि आपदा की इस घड़ी में किसी की जान जाने नहीं दी। किसी भी बेटा, बेटी या भाई को बाढ में डुबने नहीं दिया गया। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि जब वे मुख्‍यमंत्री बने तब प्रदेश में कोरोना वायरस का प्रसार था। जिलों में दवाईयां, आक्‍सीजन सिलेन्‍डर, चिकित्‍सक, अस्‍पताल की स्थिति बेहतर नहीं थी। उन्‍होंने कोरोना मरीजों के उपचार के लिए एक बेहतर व्‍यवस्‍था बनाई। कोरोना वायरस से निपटे तो सोयाबीन की फसल खराब हो गयी, फिर बाढ़ की स्थिति आ गई। इन सब संकटों का सामना हमने साहस के साथ किया। शायद इसीलिये भगवान ने मुझे मुख्‍यमंत्री बनाकर भेजा, ताकि संकट की इस घडी में प्रदेशवासियों के काम आ सकू।  मुख्‍यमंत्री ने कहा कि आज भी संकट एवं परेशानी है फिर भी में कही से भी पैसे का इंतजाम करूंगा। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि प्रात्रता पर्ची के आधार पर 3 सितम्‍बर से हितग्राहियों को 50-50 किलो का राशन दिया जायेगा, ताकि उनके घर में चूल्‍हा जलता रहे। भारत सरकार से फसल बीमा की तिथि 4-5 दिन और आगे बढाने की बात की गई है, क्‍योंकि अंतिम तिथि 31 अगस्‍त तक कई किसान अपना पंजीयन नहीं करा पाये है। उन्‍होंने कहा कि फसल बीमा पंजीयन में मंत्रियों एवं विधायकगणों को भी कार्य में लगाया जायेगा।    विधायक आशीष शर्मा ने कहा कि नेमावर में आई बाढ़ से आसपास के 30 गांव प्रभावित हुए है। मकान, दुकान एवं खेतों में पानी घुसने से भारी नुकसान हुआ है। उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री से मांग की कि बाढ़ से हुए नुकसान का उचित मुआवजा हितग्राहियों को दिया जाये। उन्‍होंने कहा कि किसान की फसल का जो नुकसान हुआ है, उसे भी बाढ़ से हुए नुकसान के अं‍तर्गत गिना जाये। विधायक श्री शर्मा ने बताया कि बाढ़ से खेती एवं व्‍यवसाय चौपट हो चुके है।    मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आपदा ग्रस्त व्यक्तियों को आर्थिक सहायता राशि के प्रमाण वितरित किये। जिसमें मकान व खाद्यान्न छति के लिए नेमावर निवासी सूरज बाई पति जगदीश, सिरालिया रेवातीर निवासी रमेश पिता श्यामलाल, भंवर सिंह पिता जस्सू, मोहनलाल पिता चुन्नीलाल तथा मिर्जापुर निवासी रासत खां पिता कालू को 95-95 हजार रूपये की आर्थिक सहायता राशि के प्रमाण-पत्र प्रदान किये तथा दुकान के सामान में क्षति होने से नेमावर निवासी कृष्णकांत पिता नर्मदा प्रसाद शर्मा, राकेश व्यास पिता कमल किशोर, बसंत राठौर पिता सुंदरलाल, उपकार पिता बंशीधर तथा शरद पिता जुगल किशोर को 12-12 हजार रुपये राशि के प्रमाण-पत्र वितरीत किये।  इस अवसर पर प्रदेश के किसान कल्‍याण एवं कृषि मंत्री कमल पटेल, स्‍थानीय जनप्रतिनिधि, ग्रामीणजन  उपस्थि‍त रहे। 

Dakhal News

Dakhal News 1 September 2020


dewas, Chief Minister, flood victims, Nemawar , giving relief amount

देवास/नेमावर। प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मंगलवार को देवास जिले के नेमावर पहुंचे तथा बाढ़ पीडितों को सम्‍बोधित करते हुए मुख्‍यमंत्री ने कहा कि सम्‍पूर्ण नेमावर क्षेत्र बाढ़ से प्रभावित रहा है। हर व्‍यक्ति जो बाढ़ से प्रभावित हुआ है उसके मकान, खेतों, अनाज, राशन एवं अन्‍य नुकसान का सर्वे कर उचित राहत राशि हितग्राहियों को दी जायेगी।    इस अवसर पर उन्‍होंने घोषणा की कि केन्‍द्रीय मंत्री नितिन गडकरी से बात करके नेमावर में फ्लायओवर ब्रिज का निर्माण कराया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार जनता के लिए है और सरकार बाढ प्रभावितों को राहत राशि देने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी। मुख्‍यमंत्री ने बताया कि वे 5 दिनों के भीतर दूसरी बार खातेगांव आये है। पूर्व में सोयाबीन फसल की खराब स्थिति को देखने आये थे और आज बाढ़ प्रभावितों का दुख बांटने आये है। उन्‍होंने कहा कि प्रदेश की तवा, बारना, शक्कर नदी एवं नर्मदा नदी में बाढ़ आने से उससे संबंधित जिलों की स्थिति बिगड़ गई। दो-दो मंजिला मकान बाढ़ में डूब गये।    उन्‍होंने बताया कि वे स्‍वयं रात भर जागकर उन्होंने बाढ़ की स्थिति पर निगरानी रखी। जिला प्रशासन पर सख्‍ती बरती, यह स्थिति ऐसी थी की यदि निरन्‍तर नजर न रखी तो भारी तबाही मचा सकती थी। रात के दो से तीन बजे के बीच अपनी जान बचाकर पेडों पर बैठे लोगों को एनडीआरएफ एवं एसडीआरएफ की टीम ने सुरक्षित निकाला। 300 लोगों का रेस्‍कयू करके उन्‍हें हैलिकाप्‍टर द्वारा सुरक्षित स्‍थान पर पहुंचाया गया।    चौहान ने कहा कि मुझे इस बात का संतोष है कि आपदा की इस घड़ी में किसी की जान जाने नहीं दी। किसी भी बेटा, बेटी या भाई को बाढ में डुबने नहीं दिया गया। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि जब वे मुख्‍यमंत्री बने तब प्रदेश में कोरोना वायरस का प्रसार था। जिलों में दवाईयां, आक्‍सीजन सिलेन्‍डर, चिकित्‍सक, अस्‍पताल की स्थिति बेहतर नहीं थी। उन्‍होंने कोरोना मरीजों के उपचार के लिए एक बेहतर व्‍यवस्‍था बनाई। कोरोना वायरस से निपटे तो सोयाबीन की फसल खराब हो गयी, फिर बाढ़ की स्थिति आ गई। इन सब संकटों का सामना हमने साहस के साथ किया। शायद इसीलिये भगवान ने मुझे मुख्‍यमंत्री बनाकर भेजा, ताकि संकट की इस घडी में प्रदेशवासियों के काम आ सकू।  मुख्‍यमंत्री ने कहा कि आज भी संकट एवं परेशानी है फिर भी में कही से भी पैसे का इंतजाम करूंगा। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि प्रात्रता पर्ची के आधार पर 3 सितम्‍बर से हितग्राहियों को 50-50 किलो का राशन दिया जायेगा, ताकि उनके घर में चूल्‍हा जलता रहे। भारत सरकार से फसल बीमा की तिथि 4-5 दिन और आगे बढाने की बात की गई है, क्‍योंकि अंतिम तिथि 31 अगस्‍त तक कई किसान अपना पंजीयन नहीं करा पाये है। उन्‍होंने कहा कि फसल बीमा पंजीयन में मंत्रियों एवं विधायकगणों को भी कार्य में लगाया जायेगा।    विधायक आशीष शर्मा ने कहा कि नेमावर में आई बाढ़ से आसपास के 30 गांव प्रभावित हुए है। मकान, दुकान एवं खेतों में पानी घुसने से भारी नुकसान हुआ है। उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री से मांग की कि बाढ़ से हुए नुकसान का उचित मुआवजा हितग्राहियों को दिया जाये। उन्‍होंने कहा कि किसान की फसल का जो नुकसान हुआ है, उसे भी बाढ़ से हुए नुकसान के अं‍तर्गत गिना जाये। विधायक श्री शर्मा ने बताया कि बाढ़ से खेती एवं व्‍यवसाय चौपट हो चुके है।    मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आपदा ग्रस्त व्यक्तियों को आर्थिक सहायता राशि के प्रमाण वितरित किये। जिसमें मकान व खाद्यान्न छति के लिए नेमावर निवासी सूरज बाई पति जगदीश, सिरालिया रेवातीर निवासी रमेश पिता श्यामलाल, भंवर सिंह पिता जस्सू, मोहनलाल पिता चुन्नीलाल तथा मिर्जापुर निवासी रासत खां पिता कालू को 95-95 हजार रूपये की आर्थिक सहायता राशि के प्रमाण-पत्र प्रदान किये तथा दुकान के सामान में क्षति होने से नेमावर निवासी कृष्णकांत पिता नर्मदा प्रसाद शर्मा, राकेश व्यास पिता कमल किशोर, बसंत राठौर पिता सुंदरलाल, उपकार पिता बंशीधर तथा शरद पिता जुगल किशोर को 12-12 हजार रुपये राशि के प्रमाण-पत्र वितरीत किये।  इस अवसर पर प्रदेश के किसान कल्‍याण एवं कृषि मंत्री कमल पटेल, स्‍थानीय जनप्रतिनिधि, ग्रामीणजन  उपस्थि‍त रहे। 

Dakhal News

Dakhal News 1 September 2020


bhopal, Based Congress family, party is first, for us , Minister Bhupendra Singh

भोपाल। मध्य प्रदेश में होने वाले विधानसभा उपचुनाव से पहले राजनेताओं के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है। कांग्रेस और भाजपा नेता एक दूसरे पर जमकर आरोप प्रत्यारोप लगा रहे हैं। इस बीच प्रदेश के नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने उपुचनाव से पहले कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उसे परिवार पर आधारित पार्टी बताया है। साथ ही उन्होंने उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशियों की सूची भी जल्द जारी होने की बात कही है।   नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने मंगलवार को मीडिया से बातचीत करते हुए कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी परिवार पर आधारित है, देश में राहुल और सोनिया गांधी तो मध्यप्रदेश में कमलनाथ का परिवार हैं। उन्होंने कहाँ कि ना तो गांधी जी खतरे में है और ही संविधान खतरे में है मैं तो कहता हूँ पूरी कांग्रेस खतरे में हैं। उपचुनाव में प्रत्याशियों की सूची को लेकर मंत्री सिंह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी में पूरी पार्टी चुनाव लड़ती है, हमारे लिए पार्टी प्रथम तो प्रत्यशियों की सूची द्वितीय है। जल्द ही प्रत्यशियों के नाम सामने होंगे।   राहुल गांधी के जीडीपी वाले बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि ‘कोरोना महामारी में पूरी दुनिया की जीडीपी कम हुई, भारत भी उसका हिस्सा है। पूरी दुनिया मे जीडीपी कम हो रही राहुल गांधी सिर्फ राजनीति करते हैं। वह ना तो जीडीपी समज रहे और ना ही अर्थव्यवस्था। प्रदेश में बाढ़ से बिगड़े हालातों पर उन्होंने कहा कि प्रत्येक दिन मुख्यमंत्री गांव गांव जा रहे है वह कल भी जीवन को दांव को लगाकर नाव से गांव में पहुँचे थे। मुख्यमंत्री सबको आस्वाशन दिला रहे है कि आपदा के समय मे सरकार साथ खड़ी है। सबको सहायता दी जाएगी। भोपाल- इंदौर का मास्टर प्लान अपने अंतिम दौर में है संभवत: वह 4 महीने में सामने होगा।  

Dakhal News

Dakhal News 1 September 2020


bhopal, Pranab Mukherjee,new direction , country, his death, personal loss,Ajay Singh

  भोपाल। भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का सोमवार को निधन हो गया। प्रणब मुखर्जी को कोरोना संक्रमित होने के बाद अस्पताल में भर्ती किया गया था, जिसके बाद उनकी सर्जरी हुई थी। आज दोपहर उपचार के दौरान उनका निधन हो गया। उनके बेटे अभिजित मुखर्जी ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। उनके निधन का समाचार मिलने के बाद देशभर के राजनेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है। मप्र के पूर्व नेेता प्रतिपक्ष और वरिष्ठ कांग्रेस नेता अजय सिंह ने भी अजय सिंह के निधन को व्यक्तिगत क्षति बताते हुए उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए है।   पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने सोमवार को एक बयान जारी कर भारत रत्न, पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि प्रणब मुखर्जी ने भारत की अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने साथ ही विभिन्न पदों पर रहकर अपने दायित्वों का कुशलता योग्यता के साथ निर्वहन किया। भारतीय राजनेताओं में से वे एक ऐसे व्यक्तित्व थे जो देश को नई दिशा देने में सक्षम  थे। प्रणब मुखर्जी के साथ अपने संबंधों और उनके व्यवहारिक व्यक्तित्व का स्मरण करते हुए अजय सिंह ने कहा कि पूज्य दाऊ सा. से उनकी मित्रता, सामीप्य और विशेष अनुराग रहा। मुझे सदैव उनका स्नेह मिला और वे हमारे पारिवारिक मुखिया की तरह थे। उनका चले जाना राष्ट्रीय क्षति के साथ ही मेरे लिए व्यक्तिगत क्षति है जिसकी पूर्ति संभव नहीं है। परमात्मा दिवंगत आत्मा को अपने चरणों मे स्थान दे और शोकाकुल परिजनों को यह आघात सहने की सामथ्र्य प्रदान करे।  

Dakhal News

Dakhal News 31 August 2020


morena, BJP state organization, will soon expand, state president ,VD Sharma, gave hints

मुरैना। मध्यप्रदेश में भाजपा की प्रदेश कार्यकारिणी की घोषणा का लंबे समय से इंतजार हो रहा है। अब जल्द ही यह इंतजार खत्म होने वाला है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने जल्द ही प्रदेश स्तर पर संगठन विस्तार के संकेत दिए है।   भाजपा प्रदेशाध्यक्ष बीडी शर्मा ने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि जल्द ही प्रदेश स्तर पर संगठन का विस्तार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि भाजपा संगठन सामूहिकता के आधार पर चलता है, चूंकि देश व प्रदेश में कोरोना का कहर है, इसलिए हमारी प्राथमिकता में कोरोना का खतरा था और इस काल में भाजपा कार्यकर्ताओं ने अपने दायित्व का पूरी तरह से निर्वहन कर कोरोना से लड़ाई लडऩे में सहयोग प्रदान किया है। इसके अलावा उपचुनाव से पहले कांग्रेस द्वारा भाजपा नेताओं पर चुनावों में झूठी घोषणाएं करने का आरोप लगाए जाने पर पलटवार करते हुए वीडी शर्मा ने कहा कि भाजपा की कथनी और करनी एक ही है। चंबल एक्सप्रेस की घोषणा जो हुई है वह हर हाल में पूरी होगी। केंद्रीय सडक़ परिवहन मंत्री नितिन गडकरी जल्द ही इसका भूमिपूजन करेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 31 August 2020


bhopal, Former minister alleges, government hiding ,death toll ,from floods

भोपाल। मप्र प्रदेश में बाढ़ के चलते जनजीवन प्रभावित हो गया है। सीहोर, रायसेन, नेमावर में नर्मदा का पानी कई गांवों में घुसा हुआ है। हजारों लोगों को सेना की मदद से रेस्क्यू कर सुरक्षित जगह पर पहुंचाया गया है। बाढ़ के चलते कुछ लोगों को अपनी जान भी गंवानी पड़ी है। सरकार प्रभावितों तक हर संभव मदद पहुंचाने का प्रयास कर रही है। वहीं बाढ़ से बिगड़े हालात पर विपक्ष ने सरकार पर हमला बोला है। पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने सरकार पर बाढ़ में मौत के आंकड़े छुपाने का आरोप लगाया है।   पूर्व मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा ने सोमवार को मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि प्राकृतिक आपदा से भोपाल में जान गई है। हम भी वह निरीक्षण करने गए थे, समय रहते अगर वह इंतजाम होते तो जान बचाई जा सकती थी। आपदा प्रबंधन नही हो पाई है सरकार बाढ़ से मौत के आंकड़े छुपा रही है। लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामले पर सरकार को घेरते हुए पीसी शर्मा ने कहा कि कोरोना से देश में 80 हजार केस आ रहे हैं। सरकार कंट्रोल करने में नाकामयाब साबित हो रही है। सरकार को अब कुछ और कदम उठाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार टेस्ट के लिए पैसे लेने जा रही, जिससे लोग पैसो की वजह से टेस्ट नही करवाए इसलिए सरकार को फ्री टेस्ट करना चाहिए।   कांग्रेस नेता के निधन पर जताया दुख पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने कांग्रेस के नेता व बीडीए के पूर्व उपाध्यक्ष अब्दुल सलीम के निधन पर दुख जताते हुए कहा कि उनका दुखद निधन हुआ है। कुछ दिन पहले उनकी पत्नी का भी निधन हुआ था। में श्रद्धासुमन अर्पित कर ईश्वर से प्रार्थना करता हूं की परिवार को सम्बल दे। यह बहुत दु:खद पल हैं।

Dakhal News

Dakhal News 31 August 2020


bhopal, Ajay Singh, serious accusation, government

भोपाल। मप्र विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने शिवराज सरकार पर गंभीर आरोप लगाया है। रविवार को एक बयान जारी कर उन्होंने कहा है कि मध्यप्रदेश में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत भोली भाली जनता को वह चावल दिया जा रहा है जो गधे- घोड़ों, भेड़- बकरियों और मुर्गियों को खिलाने लायक है। उन्होंने पूरे प्रकरण की सीबीआई जांच की मांग करते हुये दोषियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि शिवराज सरकार ने मध्यप्रदेश के जनता के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने का हक प्राप्त कर लिया है। अपने बयान में आगे अजयसिंह ने कहा कि यह तथ्य उजागर करते हुये केंद्र ने मध्यपदेश सरकार को प्रदेश में इस चावल के वितरण पर तत्काल रोक लगाने के निर्देश देते हुये चावल सप्लाई करने वाली राइस मिलों को ब्लैक लिस्टेड करने के लिए लिखा है। लेकिन प्रदेश सरकार इस चावल को खपाने के लिए तीन सितंबर से राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कार्यक्रम  के अंतर्गत 37 लाख नये हितग्राहियों को समारोह पूर्वक पात्रता पर्ची का वितरण करने जा रही है। पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि कोरोना काल में जब फिजिकल डिस्टेन्स की बात करना चाहिए तब शिवराज जी समारोह कर पर्चियाँ बांटने के निर्देश सभी कलेक्टरों को दे रहे हैं। शिवराज ने इसके लिए बाकायदा सहयोग की अपील जारी करते हुए सभी महापौरों, जिला और नगर पंचायत अध्यक्षों, जनपद पंचायत अध्यक्षों और पंच सरपंचों को पत्र भी भेजा है कि सभी हितग्राहियों को प्रति सदस्य एक रुपए प्रति किलो की दर से पाँच किलो खाद्यान्न दिया जाएगा। पत्र लिखकर उन्होंने पंचायत राज अधिनियम (73 एवं 74 वें संशोधन) का भी उल्लंघन भी किया है क्योंकि पाँच वर्ष का कार्यकाल पूरा होते ही सभी पदाधिकारियों का कार्यकाल स्वत: ही समाप्त हो गया है। ऐसा करके उन्होंने पंचायत राज अधिनियम का मखौल उड़ाया है। जो व्यक्ति पद पर नहीं हैं, उन्हें पदनाम से पत्र कैसे लिख सकते हैं। अजयसिंह ने अखबारों में प्रकाशित समाचारों का भी हवाला दिया। उन्होंने कहा कि विगत 30 जुलाई से 2 अगस्त के बीच केंद्रीय उपभोक्ता मंत्रालय के डिप्टी कमिश्नर के नेतृत्व में मध्यप्रदेश में एक टीम आई थी। इस टीम ने मण्डला और बालाघाट में 31 खाद्यान्न डिपो और एक उचित मूल्य की दुकान का निरीक्षण कर चावल के 32 सेंपल एकत्र किए थे। इनकी जांच कृषि भवन स्थित सेंट्रल ग्रेन एनालिसिस प्रयोगशाला में की गई। जांच में पाया गया कि यह चावल मानव उपयोग के लिए उच्च गुणवत्ता का नहीं है और यह पूरी तरह अनफि़ट और फीड कैटेगरी का है। उन्होंने कहा कि केंद्र में डिप्टी कमिश्नर विश्वजीत हलधर ने प्रदेश सरकार को लिखा है कि चावल का सौ प्रतिशत स्टाक रिसायकिल्ड है और अत्यधिक खराब गुणवत्ता का है। इसे रखने के लिए उपयोग में लाये गए बैग्स भी दो तीन साल पुराने हैं। इसलिए बचे हुये स्टाक को तत्काल विथहोल्ड किया जाये। अजयसिंह ने इस तथ्य पर भी आश्चर्य व्यक्त किया है कि प्रदेश में अचानक 37 लाख नये गरीब कहाँ से आ गए। यह तथ्य साबित करता है कि 14-15 साल की शिवराज सरकार में गरीबों संख्या लगातार बढ़ी है। गरीबी हटाने के उनके सारे कार्यक्रम फर्जी थे या फिर चुनाव जीतने के लिए गरीबों की संख्या का आकलन फर्जी है।

Dakhal News

Dakhal News 30 August 2020


bhopal, Ajay Singh, serious accusation, government

भोपाल। मप्र विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने शिवराज सरकार पर गंभीर आरोप लगाया है। रविवार को एक बयान जारी कर उन्होंने कहा है कि मध्यप्रदेश में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत भोली भाली जनता को वह चावल दिया जा रहा है जो गधे- घोड़ों, भेड़- बकरियों और मुर्गियों को खिलाने लायक है। उन्होंने पूरे प्रकरण की सीबीआई जांच की मांग करते हुये दोषियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि शिवराज सरकार ने मध्यप्रदेश के जनता के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने का हक प्राप्त कर लिया है। अपने बयान में आगे अजयसिंह ने कहा कि यह तथ्य उजागर करते हुये केंद्र ने मध्यपदेश सरकार को प्रदेश में इस चावल के वितरण पर तत्काल रोक लगाने के निर्देश देते हुये चावल सप्लाई करने वाली राइस मिलों को ब्लैक लिस्टेड करने के लिए लिखा है। लेकिन प्रदेश सरकार इस चावल को खपाने के लिए तीन सितंबर से राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कार्यक्रम  के अंतर्गत 37 लाख नये हितग्राहियों को समारोह पूर्वक पात्रता पर्ची का वितरण करने जा रही है। पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि कोरोना काल में जब फिजिकल डिस्टेन्स की बात करना चाहिए तब शिवराज जी समारोह कर पर्चियाँ बांटने के निर्देश सभी कलेक्टरों को दे रहे हैं। शिवराज ने इसके लिए बाकायदा सहयोग की अपील जारी करते हुए सभी महापौरों, जिला और नगर पंचायत अध्यक्षों, जनपद पंचायत अध्यक्षों और पंच सरपंचों को पत्र भी भेजा है कि सभी हितग्राहियों को प्रति सदस्य एक रुपए प्रति किलो की दर से पाँच किलो खाद्यान्न दिया जाएगा। पत्र लिखकर उन्होंने पंचायत राज अधिनियम (73 एवं 74 वें संशोधन) का भी उल्लंघन भी किया है क्योंकि पाँच वर्ष का कार्यकाल पूरा होते ही सभी पदाधिकारियों का कार्यकाल स्वत: ही समाप्त हो गया है। ऐसा करके उन्होंने पंचायत राज अधिनियम का मखौल उड़ाया है। जो व्यक्ति पद पर नहीं हैं, उन्हें पदनाम से पत्र कैसे लिख सकते हैं। अजयसिंह ने अखबारों में प्रकाशित समाचारों का भी हवाला दिया। उन्होंने कहा कि विगत 30 जुलाई से 2 अगस्त के बीच केंद्रीय उपभोक्ता मंत्रालय के डिप्टी कमिश्नर के नेतृत्व में मध्यप्रदेश में एक टीम आई थी। इस टीम ने मण्डला और बालाघाट में 31 खाद्यान्न डिपो और एक उचित मूल्य की दुकान का निरीक्षण कर चावल के 32 सेंपल एकत्र किए थे। इनकी जांच कृषि भवन स्थित सेंट्रल ग्रेन एनालिसिस प्रयोगशाला में की गई। जांच में पाया गया कि यह चावल मानव उपयोग के लिए उच्च गुणवत्ता का नहीं है और यह पूरी तरह अनफि़ट और फीड कैटेगरी का है। उन्होंने कहा कि केंद्र में डिप्टी कमिश्नर विश्वजीत हलधर ने प्रदेश सरकार को लिखा है कि चावल का सौ प्रतिशत स्टाक रिसायकिल्ड है और अत्यधिक खराब गुणवत्ता का है। इसे रखने के लिए उपयोग में लाये गए बैग्स भी दो तीन साल पुराने हैं। इसलिए बचे हुये स्टाक को तत्काल विथहोल्ड किया जाये। अजयसिंह ने इस तथ्य पर भी आश्चर्य व्यक्त किया है कि प्रदेश में अचानक 37 लाख नये गरीब कहाँ से आ गए। यह तथ्य साबित करता है कि 14-15 साल की शिवराज सरकार में गरीबों संख्या लगातार बढ़ी है। गरीबी हटाने के उनके सारे कार्यक्रम फर्जी थे या फिर चुनाव जीतने के लिए गरीबों की संख्या का आकलन फर्जी है।

Dakhal News

Dakhal News 30 August 2020


bhopal, Insurance company, not fixed, government cutting crop

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस ने शिवराज सरकार पर आरोप लगाया है कि सरकार बीमा कंपनी तय किए बिना ही किसानों से फसल बीमा की प्रीमियम वसूलने लगी है। कांग्रेस ने कहा है कि किसान खून के आंसू रो रहे हैं और मुख्यमंत्री ग्लिसरीन के आंसू बहा रहे हैं।   विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष एन.पी. प्रजापति ने शनिवार को प्रेस कांफ्रेंस के दौरान केंद्र और राज्य सरकार पर आरोप लगाया कि जब प्रदेश में मक्का की बंपर पैदावार हो रही है, तब मोदी सरकार ने मक्का पर आयात शुल्क 60 प्रतिशत से घटाकर 15 प्रतिशत कर दिया और 50 लाख टन मक्का आयात करने की अनुमति दे दी है। प्रजापति ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह अगर किसानों के हितैषी हैं तो उन्हें केंद्र सरकार को मक्का आयात करने से रोकना चाहिए।   प्रजापति ने आरोप लगाया कि पहले तो पीछे के रास्ते, जनादेश के खिलाफ, लोकतंत्र की हत्या कर सत्ता की भूख मिटाने बीजेपी ने प्रदेश की जनता के मत के साथ विश्वासघात किया और अब किसानों को खून के आंसू रुला रही है। उन्होंने कहा कि कमलनाथ सरकार द्वारा की गई किसान ऋण माफी की तीसरी किस्त न देकर इसे कृषि मंत्री कमल पटेल कलंक बता रहे है और किसान कर्ज माफी को भ्रष्टाचार बता रहे हैं। वे राहुल गांधी और कमलनाथ जी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाने वाले थे, तो अब क्यों नहीं करवा रहे हैं।  क्या हुआ क्यों नहीं करवा रहे। उन्हें तो शिवराज सिंह चैहान के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाना चाहिए।   प्रजापति ने आरोप लगाया कि यह सरकार इन्वेस्टमेंट से बनी है, इसलिए पूरी तरह केवल वसूली, भ्रष्टाचार, लूट मारी में लगी है। उन्होंने कहा कि शिवराज जी बताएं कि किसानों की फसल के बीमा के लिए अभी तक बीमा कंपनी चयन क्यों नहीं हो पायी है,  सरकार चार बार टेंडर क्यों कर रही है। मुनाफे के बंटवारे को लेकर कोई अड़चन है? जब किकबैक के लिए सरकार बार-बार किसी टेंडर को बदलेगी तो किसानों का फायदा कैसे होगा?  यह मध्य प्रदेश जानना चाहता है।

Dakhal News

Dakhal News 29 August 2020


bhopal, Union Ministers Tomar,VD Sharma , stay ,Gwalior-Chambal

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त (वीडी) शर्मा एवं केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर 30 एवं 31 अगस्त को ग्वालियर, मुरैना एवं भिण्ड जिले के प्रवास पर रहेंगे।    निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा 29 अगस्त को भोपाल एक्सप्रेस से चलकर देर रात ग्वालियर पहुंचेंगे, वहीं केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर दिल्ली से सडक़ मार्ग द्वारा इसी दिन ग्वालियर पहुंच रहे हैं। प्रवास के दौरान प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा एवं केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर विधानसभाओं प्रमुख कार्यकर्ताओं की बैठकों को संबोधित करेंगे।   भाजपा मीडिया प्रभारी लोकेन्द्र पारासर ने शनिवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि 30 अगस्त को प्रदेश अध्यक्ष शर्मा एवं केंद्रीय मंत्री तोमर प्रात: 9.30 बजे ग्वालियर से मुरैना के लिए प्रस्थान करेंगे। मुरैना में प्रात: 11 बजे अम्बाह, दोपहर 12.30 बजे दिमनी, दोपहर 2 बजे जौरा, दोपहर 3.30 बजे सुमावली एवं सायं 5 बजे मुरैना विधानसभा की बैठक में कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। सभी बैठकें मुरैना के होटल कंसाना ग्रैंड में आयोजित होगी।   वहीं, सोमवार, 31 अगस्त को प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा एवं केंद्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर प्रात: 11 बजे ग्वालियर से मालनपुर, भिण्ड के लिए प्रस्थान करेंगे। नेताद्वय मालनपुर भिंड पहुँचकर होटल मनहर में दोपहर 12 बजे गोहद और 2 बजे मेहगांव विधानसभा के प्रमुख कार्यकर्ताओं की बैठक में भाग लेंगे। बैठक के पश्चात नेताद्वय ग्वालियर के लिए प्रस्थान करेंगे। ग्वालियर पहुँचकर शर्मा एवं तोमर दोपहर 3.30 बजे होटल तानसेन में डबरा विधानसभा के प्रमुख कार्यकर्ताओं की बैठक में भाग लेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 29 August 2020


bhopal, Congress MLA, tightened up over, crop insurance, targeted CM Shivraj

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना के बाद अब भारी बारिश अपना कहर बरपा रही है। बारिश के चलते दोहरी मार झेल रहे किसानों की फसलों को भारी नुकसान पहुंच रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान खुद शुक्रवार को देवास जिले के खातेगांव में फसल नुकसानी का जायजा लेने पहुंचे थे। जहो उन्होंने आगामी 6 सितम्बर को 19 लाख किसानों के खातों में फसल बीमा का 4 हज़ार 500 करोड़ रुपये ट्रांसफर किये जाने की घोषणा की थी। सीएम की इस घोषण पर मध्य प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष और कालापीपल से कांग्रेस के विधायक कुणाल चौधरी ने सीएम शिवराज सिंह चौहान पर हमला बोला है।     कुणाल चौधरी ने शनिवार को एक बयान जारी कर सीएम शिवराज से सवाल पूछा है। उन्होंने कहा है कि क्या किसानों की फसल के बीमा का पैसे सरकार दे रही है? उन्होंने कहा कि बीमा के लिए प्रीमियम किसान खुद भरता है और कांग्रेस की सरकार में कमलनाथ ने समय पर अंश भरा था। इसी का नतीजा है की समय पर बीमा मिलता है। उन्होंने कहा कि बीमा मिलना किसान का अधिकार है, इससे सरकार का कोई लेना देना नहीं है और सरकार किसानों पर कोई अहसान नहीं कर रही है।   कुणाल चौधरी ने कहा कि किसान की कई जगहों पर 100 फीसदी फसल खबर हो चुकी है और सरकार इस बात पर स्पष्टीकरण दे कि क्या सरकार किसानों को मुआवजा देगी या नहीं? उन्होंनेसीएम शिवराज को पुरानी बात याद दिलाते हुए कहा कि जब भाजपा विपक्ष में थी तो सीएम शिवराज किसानों को 40 हज़ार रुपये हेक्टेयर हिसाब से मुआवजा देने की मांग कर रहे थे। अब भाजपा सरकार में और राज्य के सीएम शिवराज सिंह चौहान खुद है, तो क्या अब सीएम यह बताएँगे कि क्या वह किसानों को 40  हज़ार रुपये हेक्टेयर हिसाब से मुआवज़ा देंगे या नहीं। कुणाल चौधरी ने कहा कि इस संबंध में सीएम को पत्र लिखकर भी आग्रह किया गया है।   कुणाल चौधरी ने मांग की है कि सरकार तत्काल प्रभाव से किसानों के खतों में मुआवजा राशि डालना शुरू करे और सीएम शिवराज सिंह झूठ बोलना बंद करें। कुणाल चौधरी ने कहा कि सीएम ने बीमा के पैसे दिलवाने को लेकर घोषणा तो कर दी और तीन दिन भी बड़ा दिए। लेकिन क्या सीएम को यह पता है कि किसानों को बीमा करवाने में कितनी समस्या हो रही है। उन्होंने कहा कि सीएम को नहीं पता होगा क्योंकि उन्हें बीमा करवाने में कितनी परेशानी का सामना करना पड़ता है क्योंकि उनका जमीनी हकीकत से कोई लेना देना नहीं है। कुणाल चौधरी ने कहा भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि अपने बीते 15 सालों की तरह फिर किसानों को प्रताडि़त कर उनकी छाती पर गोली मरने का काम कर रही है। मगर कांग्रेस पार्टी ऐसा बिकुल नहीं  देगी। सरकार को किसानों को उनका मुआवज़ा देना ही पड़ेगा। कुणाल चौधरी ने बताया कि मध्य प्रदेश में इस साल किसानों ने रिकॉर्ड 58 लाख 46 हजार से ज्यादा हेक्टेयर क्षेत्र में सोयाबीन की बोवनी की थी और इसके कारण उम्मीद जताई जा रही थी कि गेहूं की तरह इस तिलहन फसल का भी बंपर उत्पादन होगा, लेकिन फसल येलो मोजेक वायरस की चपेट में आ गई है। अधिकांश जगह सोयाबीन के पत्ते पीले पड़ गए और पौधे सूख चुके हैं।

Dakhal News

Dakhal News 29 August 2020


bhopal, Former minister ,Sajjan Singh Verma, told Scindia a liar, tightened o, union office

भोपाल। भाजपा विधानसभा उपचुनाव के मद्देनजर ग्वालियर में भाजपा के सदस्यता अभियान के बाद कांग्रेस भी महासदस्यता अभियान चला रही है। इस बीच आरोप प्रत्यारोप का दौर भी तेजी से जारी है। कांग्रेस लगातार भाजपा हमला बोल रही है। खासकर सिंधिया कांग्रेस के निशाने पर है। इसी क्रम में गुरुवार को पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने सिंधिया को झूठा बताते हुए दौरे पर अपनी तीखी प्रतिक्रिया दी है। मध्यप्रदेश के पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया पर हमला बोला है। सज्जन सिंह ने सिंधिया के दौरे को लेकर निशाना साधा है। कांग्रेस नेता ने ट्वीट कर सिंधिया को झूठा बताया है। उन्होंंने ट्वीट कर कहा ग्वालियर की मिट्टी से मेरा खून का रिश्ता है कहने वाले सिंधिया, 6 महीने से ग्वालियर नही आए। जब यहां की जनता कोरोना से जूझ रही थी, तब उन्हें यह खून का रिश्ता याद नहीं आया?? अब चुनाव होना है तो ग्वालियर आकर जनता को झूठा पाठ पढ़ा रहे हैं। एक अन्य ट्वीट कर पूर्व मंत्री वर्मा ने सिंधिया के संघ कार्यालय जाने पर भी तंज कसा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा ‘ सिंधिया आरएसएस के मुख्यालय में जाकर शीश नवा रहे हैं, अगर रानी लक्ष्मीबाई के चरणों में शीश नवाते तो उनके आधे अपराध माफ हो जाते।

Dakhal News

Dakhal News 27 August 2020


shivpuri, Yashodhara , Jyoti Babu

शिवपुरी। भाजपा में नए-नए आए राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के कोटे से मंत्री बनाए गए पीडब्ल्यूडी राज्यमंत्री सुरेश राठखेड़ा को अपने शिवपुरी दौरे के दौरान शिवराज केबिनेट में खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने कोई तबज्जो नहीं दी। खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया से मिलने पहुंचे पीडब्ल्यूडी राज्य मंत्री सुरेश राठखेड़ा जनता के साथ लाइन में लग खेल मंत्री से मिलते नजर आए। इसके अलावा सतनवाड़ा में जिस इंजीनियरिंग कॉलेज का यशोधरा राजे सिंधिया ने निरीक्षण किया। उस निरीक्षण से भी मप्र के राज्य मंत्री सुरेश राठखेड़ा को दूर रखा गया। जबकि जो इंजीनियरिंग कॉलेज जिस स्थान सतनवाड़ा पर बना है वह मंत्री सुरेश राठखेड़ा के पुराने विधानसभा क्षेत्र पोहरी में ही आता है।    मप्र में सत्ता में आई शिवराज सरकार में मंत्री बनने के बाद बुधवार को यशोधरा राजे सिंधिया शिवपुरी के प्रथम दौरे पर आई थीं। इस दौरान खेल युवक कल्याण कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने पीडब्ल्यूडी मंत्री सुरेश राठखेड़ा को तबज्जो नहीं दी। इतना ही नहीं मंत्री होने के बाद भी राठखेड़ा को इंजीनियरिंग कॉलेज के निरीक्षण के दौरान उन्हें दूर रखा गया।    राज्य मंत्री सुरेश राठखेड़ा आम कार्यकर्ताओं की तरह दूसरे लोग व कार्यकर्ताओं के बीच में बैठे रहे । खेल मंत्री राजे अधिकारियों को साथ लेकर इंजीनियर कॉलेज का निरीक्षण और बैठकें करती रहीं। बैठक से निकलने के बाद मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया गाड़ी में बैठकर अगले कार्यक्रम के लिए रवाना हो गई इसी बीच राज्य मंत्री राठखेड़ा कार्यकर्ताओं की भीड़ को चीरते हुए गाड़ी तक पहुंचे और दो मिनट की चर्चा के बाद खेल मंत्री निकल गई।

Dakhal News

Dakhal News 27 August 2020


shivpuri, Yashodhara , Jyoti Babu

शिवपुरी। भाजपा में नए-नए आए राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के कोटे से मंत्री बनाए गए पीडब्ल्यूडी राज्यमंत्री सुरेश राठखेड़ा को अपने शिवपुरी दौरे के दौरान शिवराज केबिनेट में खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने कोई तबज्जो नहीं दी। खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया से मिलने पहुंचे पीडब्ल्यूडी राज्य मंत्री सुरेश राठखेड़ा जनता के साथ लाइन में लग खेल मंत्री से मिलते नजर आए। इसके अलावा सतनवाड़ा में जिस इंजीनियरिंग कॉलेज का यशोधरा राजे सिंधिया ने निरीक्षण किया। उस निरीक्षण से भी मप्र के राज्य मंत्री सुरेश राठखेड़ा को दूर रखा गया। जबकि जो इंजीनियरिंग कॉलेज जिस स्थान सतनवाड़ा पर बना है वह मंत्री सुरेश राठखेड़ा के पुराने विधानसभा क्षेत्र पोहरी में ही आता है।    मप्र में सत्ता में आई शिवराज सरकार में मंत्री बनने के बाद बुधवार को यशोधरा राजे सिंधिया शिवपुरी के प्रथम दौरे पर आई थीं। इस दौरान खेल युवक कल्याण कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने पीडब्ल्यूडी मंत्री सुरेश राठखेड़ा को तबज्जो नहीं दी। इतना ही नहीं मंत्री होने के बाद भी राठखेड़ा को इंजीनियरिंग कॉलेज के निरीक्षण के दौरान उन्हें दूर रखा गया।    राज्य मंत्री सुरेश राठखेड़ा आम कार्यकर्ताओं की तरह दूसरे लोग व कार्यकर्ताओं के बीच में बैठे रहे । खेल मंत्री राजे अधिकारियों को साथ लेकर इंजीनियर कॉलेज का निरीक्षण और बैठकें करती रहीं। बैठक से निकलने के बाद मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया गाड़ी में बैठकर अगले कार्यक्रम के लिए रवाना हो गई इसी बीच राज्य मंत्री राठखेड़ा कार्यकर्ताओं की भीड़ को चीरते हुए गाड़ी तक पहुंचे और दो मिनट की चर्चा के बाद खेल मंत्री निकल गई।

Dakhal News

Dakhal News 27 August 2020


Shivpuri, dead nephew, body found, three days , Minister of State Dhakad

शिवपुरी। जिले को पोहरी थाना क्षेत्र में रहने वाले प्रदेश के लोक निर्माण राज्य मंत्री सुरेश धाकड़ के तीन दिन से लापता भांजे अनिल का शव बरामद हुआ है। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू की।    पोहरी थाना पुलिस के अनुसार, राज्यमंत्री धाकड़ का भांजा अनिल (27) निवासी पोहरी अगत 24 अगस्त को अपने घर से निकला था और उसके बाद वह लौटकर नहीं आया। जब देर रात तक वह घर नहीं पहुंचा तो परिजनों ने उसकी तलाश की और नहीं मिलने पर थाने पहुंचकर गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस के अनुसार, बुधवार देर रात सूचना मिली थी कि पोहरी थाना क्षेत्र के प्लांटेशन के पास एक पुल के नीचे एक युवक का शव पड़ा हुआ है। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और पंचनामा बनाकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। युवक की पहचान राज्यमंत्री धाकड़ के भांजे अनिल के रूप में हुई है। पुलिस फिलहाल मामले की जांच कर रही है। 

Dakhal News

Dakhal News 27 August 2020


bhopal, Chief Minister, Collector, SP, Hidayat, black marketing and adulteration not tolerated

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को यूरिया, राशन में कालाबाजारी और खाद्य पदार्थों में मिलावट को लेकर कलेक्टर्स एवं एसपी की एक इमरजेंसी मीटिंग बुलाई। उन्होंने प्रदेश के सभी कलेक्टर और एसपी को चेताते हुए कहा कि इस प्रवृत्ति पर तत्काल रोक लगाएं। उन्होंने कहा कि इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है।   वर्चुअल मीटिंग में मुख्यमंत्री ने कालाबाजारी के मामले में पहले हुई एफआईआर और कर्मचारियों/ अधिकारियों पर हुई निलंबन की कार्रवाई की जानकारी मांगी। उन्होंने कहा कि कब,  कितने अधिकारी-कर्मचारी सस्पेंड हुए और कितने लोगों पर एफआईआर दर्ज हुई है,  उसकी पूरी जानकारी मुझे भेजें।  इसके साथ ही कालाबाजारी करने वाले डीलर पर कड़ा से कड़ा एक्शन लें। सीएम ने कहा कि मैं इस पूरे मामले को गंभीरता से ले रहा हूं और इसमें लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।   मीटिंग में मुख्यमंत्री ने कहा कि राशन और खाद बीज में कालाबाज़ारी शून्य होनी चाहिए। जो कालाबाजारी कर रहे हैं, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करें, जिससे लोगों को परेशानी नहीं आए। सीएम शिवराज ने अधिकारियों को धाराएं बताकर कहा कि कालाबाज़ारी करने वालों के खिलाफ इन धाराओं पर कार्रवाई करें। अपराधियों पर मुक़दमे और वाहन राजसात किए जाएं। सीएम ने बैठक में ईओडब्ल्यू के अधिकारियों को भी बुलाया था। मुख्यमंत्री ने कहा कि भविष्य के लिए खाद की एडवांस व्यवस्था करने के लिए काम करें। हमने सिस्टम ठीक कर दिया था। कालाबाजारी समाप्त हो गई थी। लेकिन अब फिर से यही हो रहा है। इसे रोकने के लिए तकनीक का उपयोग करें।

Dakhal News

Dakhal News 26 August 2020


bhopal, Tell Kamal Nath, put Chambal Express Way ,Vishnudutt Sharma

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि आज कांग्रेस के नेता ग्वालियर चंबल अंचल में जाकर भाजपा से सवाल कर रहे हैं, लेकिन उन्हें सवाल पूछने के बजाय जनता को बताना चाहिए कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्यप्रदेश को चंबल एक्सप्रेस वे की जो सौगात दी थी, कमलनाथ ने उसे ठंडे बस्ते में क्यों डाल दिया था? प्रदेश में भाजपा सरकार आते ही चंबल एक्सप्रेस वे को प्रोग्रेस वे के रूप में आगे बढ़ाने का काम हुआ है। यह बात उन्होंने बुधवार को प्रदेश कार्यालय में मीडिया से बातचीत में कही। उन्होंने कहा कि कमलनाथ जब मुख्यमंत्री थे तब उन्हीं के मंत्री गोविन्द सिंह ने रेत के अवैध उत्खनन का आरोप लगाते हुए पैसा नीचे से ऊपर तक जाने की बात कही थी। कमलनाथ बताएं कि इस ‘उपर तक में’ सोनिया गांधी या 10 जनपथ शामिल थी ?   भाजपा के सदस्यता अभियान से कांग्रेस में खलबली सदस्यता अभियान को लेकर कांग्रेस नेताओं द्वारा सवाल किए जाने के जवाब में विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि ग्वालियर में हुए भाजपा के सदस्यता अभियान की धमक दिल्ली तक पहुंच गई है, जिसकों लेकर कांग्रेस के राष्ट्रीय नेताओं और स्वयं सोनिया गांधी जी को विचार करना पड़ रहा है। कांग्रेस को अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए मंथन करना पड़ रहा है, पूरी कांग्रेस में खलबली है। उन्होंने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता आधरित पार्टी है, यहां बूथ का अध्यक्ष राष्ट्रीय अध्यक्ष बन सकता है, यहां गरीब मॉ के बेटे नरेन्द्र मोदी जी प्रधानमंत्री, गरीब किसान के बेटे शिवराजसिंह चौहान मुख्यमंत्री और सामाजिक चेतना के लिए संघर्ष करने वाली उमा भारती मुख्यमंत्री बन सकती हैं। यह कांग्रेस की तरह एक परिवार विशेष का कब्जा नहीं है।     ग्वालियर-चंबल अंचल में कांग्रेस के पास कोई नेता नहीं बचाशर्मा ने कहा कि कांग्रेस के पास अब ग्वालियर-चंबल अंचल में कोई नेता नहीं बचा है। यहीं कारण है कि कांग्रेस को दूसरे अंचल के तीन पूर्व मंत्रियों को ग्वालियर भेजना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि सदस्यता अभियान में 76361 कांग्रेस कार्यकर्ता भाजपा में शामिल हुए, जिससे कमलनाथ और दिग्विजय सिंह के पैरों तले जमीन पूरी तरह खिसक चुकी है। कांग्रेस के नेता भयभीत हैं और इसलिए व्यर्थ के सवाल उछाल रहे हैं।

Dakhal News

Dakhal News 26 August 2020


bhopal, Chief Minister Chauhan, inaugurated , water treatment plant

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को राजधानी भोपाल की मनुआभान टेकरी पर अमृत परियोजना में निर्मित जलशोधन संयंत्र का लोकार्पण किया। नगर निगम भोपाल ने 50 एमएलडी क्षमता के इस संयंत्र का निर्माण कर बड़ी झील से नगर के विभिन्न इलाकों में उच्च स्तरीय टंकियों के माध्यम से जलप्रदाय करने के लिए करवाया है। इस संयंत्र से करीब साढ़े तीन लाख आबादी को शुद्ध और सुचारू पेयजल मिलेगा।    इस मौके पर मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार का लक्ष्य प्रत्येक घर पर स्वच्छ पेयजल पहुंचाना है। भोपाल के लांबाखेड़ा, संत हिरदाराम नगर, भानपुरा सहित गोविंदपुरा, नरेला, हुजूर और बैरसिया क्षेत्र के अन्य कई इलाकों को नये संयंत्र का लाभ मिलेगा। मुख्यमंत्री चौहान ने राजधानी भोपाल को मिली इस सौगात के लिए नागरिकों को बधाई दी। उन्होंने अधिकारियों को संयंत्र के सुचारू संचालन के निर्देश भी दिए। मुख्यमंत्री ने जलशोधन संयंत्र के साथ ही इंटेकवेल एवं अलग-अलग स्थानों पर बनी 23 उच्चस्तरीय टंकियों का संयुक्त लोकार्पण किया।   लोकार्पण कार्यक्रम में नागरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह, प्रोटेम स्पीकर मध्यप्रदेश विधानसभा रामेश्वर शर्मा, विधायक श्रीमती कृष्णा गौर, पूर्व महापौर आलोक शर्मा, सुरजीत सिंह चौहान, कमिश्नर भोपाल कविन्द्र कियावत, पुलिस महानिरीक्षक उपेन्द्र जैन, कलेक्टर भोपाल अविनाश लवानिया और अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।   मनुआभान जलशोधन संयंत्र : एक नजर में मनुआभान जलशोधन संयंत्र की लागत 13.90 करोड़ है। करबला इंटेकवेल और पंप हाउस की लागत 5.30 करोड़, रॉ वाटर राइजिंग मैन बिछाने की लागत 12.10 करोड़, 5 उच्चस्तरीय टंकियों की निर्माण लागत 7 करोड़, जल वितरण नालिकाओं और फीडरमैन बिछाने की लागत 28.50 करोड़ है। पंप हाउस जलशोधन संयंत्र तक 8 एमएल व्यास के 5630 मीटर पाईप का उपयोग किया गया है। विभिन्न टंकियों को भरने के लिए 300 से 800 मीटर व्यास की फीडर लाइन बिछाई गई है।   मनुआभान पहाड़ी पर पौधरोपण मुख्यमंत्री चौहान ने इस अवसर पर परिसर में कचनार का पौधा रोपा। अन्य अतिथियों ने भी पौधे लगाए। कमिश्नर भोपाल ने बताया कि इस पहाड़ी पर विविध प्रजातियों के पौधे रोपे जा रहे हैं।   भारतमाता मंदिर प्रोजेक्ट इस अवसर पर मुख्यमंत्री चौहान को नगर निगम अधिकारियों ने टेकरी परिसर में निर्मित होने वाले भारत माता मंदिर प्रोजेक्ट की भी जानकारी दी। यहां भारत माता की मूर्ति की स्थापना के साथ ही स्वतंत्रता सेनानियों की तस्वीरों और प्रतिमाओं को प्रदर्शित करने की भी योजना है।

Dakhal News

Dakhal News 26 August 2020


gwalior, Congress charges, BJP spreading, confusion through, fake membership campaign

ग्वालियर/भोपाल। भाजपा के तीन दिवसीय सदस्यता समारोह को लेकर कांग्रेस की टीका-टिप्पणी जारी है। प्रदेश कांग्रेस के मीडिया प्रभारी (ग्वालियर-चम्बल संभाग) के.के. मिश्रा ने आरोप लगाया है कि भाजपा एक फर्जी सदस्यता अभियान को लेकर प्रदेश में भ्रम फैला रही है। के.के.मिश्रा ने ग्वालियर में 76 हजार 361 से अधिक सिंधिया समर्थकों के भाजपा के सदस्य बनाये जाने हेतु आयोजित तीन दिवसीय सदस्यता अभियान को फर्जी और “कोरोना फैलाओ अभियान” बताया है।    कांग्रेस के मीडिया प्रभारी के.के.मिश्रा ने कहा कि सदस्यता अभियान को लेकर  भ्रम की लकीरें पीटने के बजाय भाजपा में यदि साहस है तो वह अपनी उल्लेखित संख्या के नाम, पता, जिला/शहर, फोन अथवा मोबाइल नंबरों की सूची भी जारी करे अन्यथा यह माना जायेगा कि झूठों के इस समूह ने ग्वालियर-चम्बल अंचल और प्रदेश की जनता को धोखा दिया है जो एक राजनैतिक अपराध की श्रेणी में आता हैं। मिश्रा ने यह भी कहा कि इस तीन दिवसीय अभियान में तीनों ही दिन मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान व ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ व उनकी निर्वाचित सरकार के खिलाफ जिन निम्नस्तरीय शब्दों, अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल कर झूठ परोसा है वह उनके राजनैतिक कद और वैचारिक बोधता के स्तर को दर्शाने के लिये पर्याप्त है। उन्होंने मुख्यमंत्री और सिंधिया को कांग्रेस की ओर से सीधी चुनौती देते हुये कहा कि यदि उनके आरोपों में सच्चाई है तो हम दस्तावेजी सबूतों के साथ उनके हर कथित आरोप का उनके ही द्वारा चयनित स्थान पर जबाब देने के लिये तैयार है। मिश्रा ने कहा कि मुख्यमंत्री और सिंधिया की पहचान झूठ की बुनियाद पर टिके नेताओं में शुमार हो चुकी है एक व्यवसायिक राजनेता का सहयोग कर वे भाजपा की जड़ों में मट्ठा डाल रहे हैं।

Dakhal News

Dakhal News 25 August 2020


bhopal, Shivraj Singh Chauhan,mistake,contested , Scindia

भोपाल। हमेशा अपने बयानों को लेकर और पार्टी लाइन से हटकर बोलने वाले मप्र के चाचौड़ा से वरिष्ठ कांग्रेस विधायक और पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह के छोटे भाई लक्ष्मण सिंह ने बड़ा बयान दिया है। हालांकि इस बार उन्होंने अपनी पार्टी के खिलाफ बोलने की बजाय भाजपा पर हमला बोला है। उन्होंने आगामी उपचुनाव में कांग्र्रेस की जीत का दावा करने के साथ ही ज्योतिरादित्य सिंधिया और सीएम शिवराज पर निशाना साधा है।   लक्ष्मण सिंह ने मंगलवार को मीडिया से बातचीत करते हुए सिंधिया और सीएम शिवराज पर तंज कसते हुए कहा है कि सीएम शिवराज पूरे प्रदेश की बाढ़ का निरीक्षण करने के बजाय ज्योतिरादित्य पर ही टिके हुए है। अगर वह ज्योतिरादित्य सिंधिया के दम पर चुनाव लड़ें तो यह शिवराज जी की भूल होगी। अभी सरकार देख रही है कि उपचुनाव में क्या होगा। शिवराज जी जब सत्ता में नही थे तब बोले थे चाचौड़ा को जि़ला बनाने के लिए। लेकिन उपचुनाव में अब ग्वालियर की ज़मीन खिसक गई है। जनता विरोध में आ गई है।   उपचुनाव में जीत का दावाउन्होंने आगामी उपचुनाव में कांग्रेस की जीत का दावा करते हुए कहा कि मेरा अनुमान है हम 18 से 20 सीट जीतेंगे। इसके अलावा 2024 में लोकसभा चुनाव जीतकर भी हम केंद्र ने सरकार बनाएंगे। बस हमें अपनी कार्यसमिति में बदलाव लाना होगा। मध्यप्रदेश में भी हम सरकार बनाएंगे। ग्वालियर में हुए सदस्यता अभियान पर भी तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा कह रही है 7500 कार्यकर्ता भाजपा में गए। तो मैं पूछना चाहता हूं कि वो हज़ारो लोग जो बाहर प्रदर्शन कर रहे थे वो कौन थे।   शिवराज और महाराज की जोड़ी की होगी दुर्दशालक्ष्मण सिंह के भाजपा में जाने और राजा महाराजा के सवाल पर उन्होंने कहा कि मैं चुनाव लडऩे से पहले भाजपा में गया था, सिंधिया चुनाव बाद भाजपा में गए है। मैंने दल विधायक या सांसद बनाकर नही बदला था। उन्होंने सिंधिया पर निशाना साधते हुए कहा कि हमने झांसी की रानी का साथ दिया है। हमारी भावना देश हित की रही है। शिवराज और महाराज की जोड़ी की चुनाव के बाद दुर्दशा होगी।हमारी पार्टी की पहचान सोनिया गांधी से कांग्रेस में अध्यक्ष पद को लेकर चल रही बहस और कांग्रेस के पास गांधी परिवार के अलावा विकल्प नही है सवाल पर लक्ष्मण सिंह ने कहा कि विकल्प का कोई प्रश्न ही नही है। जबसे सोनिया गांधी अध्यक्ष बनी है, तबसे ही वह वर्किंग कमेटी के मश्वरे से ही सारे कार्य करती है। हमारी पार्टी की पहचान सोनिया जी से जुड़ी है। वहीं राहुल गांधी को लेकर उन्होंने कहा कि राहुल गांधी गांधी ने वह किया जो सीनियर ने कहा, सबसे राय लेकर ही राहुल गांधी ने फैसला किया है। लोगों की ये गलत धारणा है कि राहुल अपने मन से बोलते है। कांग्रेस नेताओं द्वारा नेतृत्व परिवर्तन के लिए खत लिखे जाने पर उन्होंने कहा कि हमारी प्रजातांत्रिक पार्टी है। भाजपा में कार्य समिति की नही चलती सिर्फ 1 व्यक्ति की चलती है। मध्यप्रदेश की भी कार्य समिति बनना चाहिये और उसका जो फैसला हो वो अध्यक्ष को लागू करना चाहिये।   कमलनाथ की कार्यप्रली सबको साथ लेकर चलने कीकमलनाथ को लेकर उठ रहे सवालों के जवाब में लक्ष्मण सिंह ने कहा कि मैं सारे सीनियर लीडर का सम्मान करता हूँ। मेरा मानना है की एक व्यक्ति सब कुछ नही चला सकता। इसलिए एक कार्य समिति प्रदेश व जि़ले में भी होना चाहिए। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को ही कांग्रेस अध्यक्ष व नेता प्रतिपक्ष बनाने में एक व्यक्ति का कोई सवाल नहीं है। कमलनाथ ऐसे व्यक्ति है कि उनकी कार्यप्रली सबको साथ लेकर चलने की है।

Dakhal News

Dakhal News 25 August 2020


bhopal, Big statement , former minister, BJP ,fake membership, no Congress workers

भोपाल। मप्र के ग्वालियर जिले में भाजपा ने तीन दिवसीय सदस्यता अभियान चलाया। भाजपा के अनुसार इस तीन दिवसीय सदस्यता अभियान में सात हजार से अधिक कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। वहीं भाजपा के इस दावे पर मप्र के पूर्व मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा ने सवाल उठाए हैं और दावे को फर्जी बताया है।   पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने मंगलवार को मीडिया से बातचीत करते हुए भाजपा पर निशाना साधा है। उन्होंने भाजपा के सदस्यता के दावे पर कहा कि भाजपा लिस्ट जारी करे किसको सदस्यता दिलाई। पीसी शर्मा ने कहा कि जिन्होंने भाजपा की सदस्यता ली है, उनमें कांग्रेस का कोई कार्यकर्ता नहीं, भाजपा ने फर्जी  सदस्यता कराए हैं। साथ ही उन्होंने जयभान सिंह पवैया के ट्वीट के जरिये भाजपा पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस 135 साल पुरानी पार्टी है। यहां सबको अपनी बात रखने का हक है, इसलिए सब अपनी बात रखते हैं।   कोरोना को लेकर सरकार को घेरा कोरोना संक्रमण के चलते प्रदेश में अलग अलग कार्य क्षेत्र में लोगों के जीवन पर पड़े असर को लेकर सरकार पर निशाना साधते हुए पीसी शर्मा ने कहा कि कर्मचारियों की हड़ताल लगातार जारी है, कोरोना में इन्होंने जनता की सेवा की, इनकी सभी मांग पूरी हो। सरकार ड्राइवर-कंडक्टर को सरकार आर्थिक सहायत दें, ट्रांसपोर्ट यूनियन की मांग माने, टैक्स माफ करें। उन्होंने कहा कि कोरोना को लेकर प्रदेश में हालात लगातार बिगड़ रहे हैं। कोरोना पीडि़तों का निशुल्क इलाज बन्द न हो।

Dakhal News

Dakhal News 25 August 2020


bhopal, Incident drowning ,five girls, Parvati river, tragic,Vishnudutt Sharma

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने सीहोर जिले के मूंडला गांव में पार्वती नदी में पांच बच्चियों के डूबने की घटना को अत्यंत दुखद बताया है। गौरतलब है कि सोमवार को नदी में डूबी बच्चियों में से एक को बचा लिया गया था, तीन के शव मिले हैं जबकि एक की तलाश जारी है।भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि हंसती-खेलती बच्चियों के डूब जाने की घटना हृदयविदारक है। ईश्वर मृत बच्चियों की आत्मा को शांति दे और शोकाकुल परिजनों को दुख सहन करने की शक्ति प्रदान करे। उन्होंने पीड़ित परिवार के साथ एकजुटता प्रदर्शित करते हुए कहा है कि दुख की इस घड़ी में भारतीय जनता पार्टी पीड़ित परिवार के साथ है। उन्होंने लापता बच्ची के सकुशल होने की भी कामना की है।

Dakhal News

Dakhal News 24 August 2020


Gwalior, 76361 Congress workers ,joined BJP, three days

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी का ग्वालियर में तीन दिवसीय सदस्यता ग्रहण समारोह सोमवार को संपन्न हुआ। इन समारोह में संभाग के चारों लोकसभा क्षेत्रों ग्वालियर, मुरैना, गुना और भिंड के 76361 कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने पार्टी में शामिल हुए ग्वालियर संभाग के कांग्रेस कार्यकर्ताओं का स्वागत किया है। उन्होंने सभी कार्यकर्ताओं को उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं देते हुए कहा है कि अब हम सब मिलकर प्रदेश के विकास के लिए काम करेंगे। भाजपा की सदस्यता लेने वाले कार्यकर्ताओं में अशोकनगर और गुना जिले के वे कार्यकर्ता भी शामिल हैं, जिन्होंने कुछ दिन पहले भोपाल स्थित पार्टी के प्रदेश कार्यालय में भाजपा की सदस्यता ली थी। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि इतनी बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं का भाजपा में आना यह बताता है कि वादाखिलाफी करने वाली कांग्रेस की सरकार के प्रति लोगों में गुस्सा बरकरार है और कांग्रेस के प्रति लोगों का तेजी से भोहभंग हो रहा है। उन्होंने कहा कि इस सदस्यता अभियान से भारतीय जनता पार्टी के परिवार में वृद्धि हुई है और पार्टी निश्चित रूप से आगामी उपचुनाव में सभी सीटों पर जीत हासिल करेगी साथ ही अधिक ताकत से राष्ट्रवाद के उस विचार को प्रसारित करेगी, जो भारतीय जनता पार्टी का मूल विचार रहा है।

Dakhal News

Dakhal News 24 August 2020


bhopal, BJP leaders, CM Shivraj, salute martyr ,Baramulla terror attack

भोपाल। कश्मीर के बारामूला में हुए आतंकी हमले में मप्र के राजगढ़ जिले के खुजनेर निवासी सैनिक मनीष कारपेंटर शहीद हो गए हैं। जम्मू कश्मीर के बारामूला स्थित सलोसा इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई थी। मनीष कारपेंटर 2016 में सेना में भर्ती हुए थे। उनके शहादत पर मप्र सीएम शिवराज सिंह चौहान समेत भाजपा नेताओं ने शोक व्यक्त किया है।   मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर वीर सपूत की शहादत पर दुख व्यक्त करते हुए श्रद्धांजलि दी है। उन्होंने ट्वीट कर कहा ‘राजगढ़ के खुजनेर की माटी के लाल, वीर सपूत मनीष कारपेंटर जी कश्मीर के बारामूला में हुए आतंकी हमले में शहीद हो गये। ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति और परिजनों को यह गहन दु:ख सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं। मध्यप्रदेश को अपने वीर सपूत पर गर्व है।   भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने अपने ट्वीट में कहा ‘खुजनेर, राजगढ़ के वीर सपूत मनीष कारपेंटर जी कल कश्मीर के बारामूला में हुए आतंकी हमले में वीरगति को प्राप्त हो गए। उनकी शहादत के लिए मध्यप्रदेश के साथ साथ पूरा देश उनका ऋणी रहेगा। ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान दे एवं परिजनों को इस दु:ख को सहने की शक्ति दे।   भाजपा राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने शहीद जवान को नमन करते हुए कहा ‘शहादत पर कोटिश: नमन। माँ भारती के वीर सपूत और मप्र खुजनेर (राजगढ़) की माटी के लाल श्री मनीष कारपेंटर जी कश्मीर के बारामूला में हुए आतंकी हमले में वीरगति को प्राप्त हो गये। ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान दे एवं परिजनों को इस दु:ख को सहने की शक्ति दे।

Dakhal News

Dakhal News 24 August 2020


gwalior, Congress, worried about chair, not public, Jyotiraditya Scindia

ग्‍वालियर। अब कांग्रेसी नेताओं को अपनी जमीन खिसकती दिख रही है। उनको न कभी जनता की चिंता थी और न कभी होगी। वे तो सिर्फ अपनी कुर्सी की चिंता करना जानते हैं। हम सबको मैदान में उतरकर कांग्रेस को ऐसा सबक सिखाना होगा कि व दोबारा वादाखिलाफी न कर सके। यह बात शनिवार को ग्‍वालियर में आयोजित सदस्यता ग्रहण समारोह में उपस्थित कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कही। इस अवसर पर  मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा, केंद्रीय मंत्री  नरेंद्रसिंह तोमर एवं राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा उपस्थित थे।    सिंधिया ने कहा कि मेरे 20 साल के राजनैतिक इतिहास से ज्यादा भाजपा के कार्यकर्ताओं का इतिहास रहा है। भाजपा कार्यकर्ताओं ने लाठियों का सामना किया है। भाजपा का कार्यकर्ता केवल मान-सम्मान चाहता है और अगर कार्यकर्ता के सम्मान की बात आयेगी,  तो मैं चुपचाप नहीं बैठूंगा। उन्‍होंने कहा कि किसी भी दल की ताकत नेता नहीं,  बल्कि आम कार्यकर्ता होते हैं। अगर भविष्य में भाजपा का झंडा बुलंद होगा तो सिर्फ आपके ही बलबूते पर ही होगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस 15 साल बाद सत्ता में आयी थी तो उसे जनता से लगाव नहीं था। कांग्रेस में भ्रष्टाचार ही शिष्टाचार है। कांग्रेस सरकार के एक मंत्री ने ही इस बात के लिए माफी मांगी थी कि हमारा शराब माफिया और भ्रष्टाचार पर नियंत्रण नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने वल्लभ भवन को लूट भवन बना दिया था। श्री सिंधिया ने कहा कि मुख्यमंत्री के तौर पर कमलनाथ ने कभी भी चंबल संभाग में कदम नहीं रखा, वहीं शिवराजजी ने यहां आने से पहले ही करोड़ों के काम शुरू करवा दिए। कमलनाथ कोरोना से लड़ाई के बजाय सिर्फ बातें करते रहे,  शिवराजसिंह जी ने अकेले कोरोना से सामना किया।

Dakhal News

Dakhal News 22 August 2020


bhopal, Disaster Control Centers,active around , clock,Shivraj

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में अतिवर्षा की स्थिति की समीक्षा कर आमजन को जलभराव की स्थिति से बचाने और आवश्यक राहत के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिला मुख्यालय स्थित आपदा नियंत्रण केन्द्र को 24 घंटे सक्रिय रखा जाए। जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक तत्काल की जाए और अतिवर्षा के एवं राहत के प्रयासों की गहन समीक्षा की जाए। बैठक में मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, पुलिस महानिदेशक विवेक जौहरी, अपर मुख्य सचिव एस.एन. मिश्रा और अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।   मुख्यमंत्री चौहान ने निर्देश दिए की सभी कलेक्टर्स जिले के बड़े बांधों और जलाशयों की स्थिति पर नजर रखें। संबंधित अमला पूर्ण सजग, सतर्क रहे। नर्मदा घाटी विकास विभाग के कंट्रोल रूम से भी निरंतर संपर्क रखा जाए ताकि जलभराव और बांधों के गेट खोलने की स्थिति आने पर सभी आवश्यक इंतजाम हो सकें। संभागीय कमिश्नर्स भी नियमित मॉनिटरिंग कर कठिनाई की स्थिति में समाधान निकालने में पीछे न रहें। बाढ़ की स्थिति में आपदा राहत के लिए सभी उपयोगी उपकरण कार्य करने की स्थिति में रखते हुए बचाव दल मुस्तैद रहें। मुख्यमंत्री चौहान ने फसलों की वर्तमान स्थिति की जानकारी भी ली।   मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि कहीं प्रदेश में अतिवर्षा के कारण गंभीर स्थिति नहीं है लेकिन पूरी तरह सतर्क रहकर आमजन को परेशानी से बचाने के प्रयास हों। बाढ़ की स्थिति की सूचनाओं के आदान-प्रदान और समन्वय के लिए कलेक्टर सीमावर्ती जिलों के कलेक्टर्स के साथ भी निरंतर संपर्क में रहें।   मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि जिन शहरी क्षेत्रों के वार्डों अथवा ग्रामीण क्षेत्रों में जलभराव की स्थिति बन गई है, या बस्तियों में पानी प्रवेश कर गया है, वहां रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट किया जाए। राहत स्थलों पर भोजन, पेयजल, आश्रय की पर्याप्त व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें। जिलास्तरीय कंट्रोल रूम पूरी तत्परता से कार्य करें। संबंधित स्टाफ अपने दायित्व के निर्वहन के लिए सजग रहे।   पिकनिक स्थलों पर जाने से बचें आमजन, सावधानी आवश्यक है मुख्यमंत्री चौहान ने प्रशासनिक अमले से यह भी सुनिश्चित करने को कहा कि जिले के ऐसे पिकनिक स्थलों जहाँ झरने देखने के लिए लोग पहुँच जाते हैं, वहां जाने से लोग बचें। ऐसे स्थानों पर सुरक्षा के लिए आवश्यक सावधानियाँ रखी जाएं। मुख्यमंत्री चौहान ने आमजन से भी ऐसे स्थानों पर जाने का मोह छोड़कर सावधानी बरतने का अनुरोध किया है।   नदियों जलाशयों और बांधों का जलस्तर मुख्यमंत्री चौहान ने अधिक वर्षा वाले जिलों और नदियों एवं बांधों के जलस्तर की जानकारी भी प्राप्त की।बैठक में जानकारी दी गई कि प्रदेश में भोपाल-इन्दौर सहित होशंगाबाद, रायसेन, सीहोर, राजगढ़, विदिशा, उज्जैन, धार, शाजापुर, खण्डवा जिलों में सर्वाधिक वर्षा हुई है। तीन जिलों को छोड़कर कहीं भी सामान्य से कम बारिश नहीं है। करेली, होशंगाबाद, मोरटका में नर्मदा का जलस्तर खतरे के निशान से काफी नीचे है। टमस, केन, टोंस, चंबल, पार्वती, बेतवा का जलस्तर भी क्रमश: सिरमौर, गुनौर, मैहर, नागदा, बरखेड़ा, मकसूदनगढ़ और नीमखेड़ा में खतरे के निशान से बहुत कम है। जलाशयों में बरगी जबलपुर का जलस्तर 421 मीटर, तवा, होशंगाबाद का जलस्तर 352 मीटर, बारना रायसेन का जलस्तर 345 मीटर, इंदिरा सागर जलाशय खण्डवा का जलस्तर 256 मीटर, ओंकारेश्वर का 194 मीटर, बाणसागर जलाशय का 341 मीटर है।   किसानों की सलाह के लिए कृषि विभाग तत्पर मुख्यमंत्री चौहान ने प्रदेश में फसलों की वर्तमान स्थिति की जानकारी भी प्राप्त की। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि यदि कहीं अतिवर्षा से फसलों पर प्रभाव पड़ता है तो किसानों को आवश्यक मार्गदर्शन उपलब्ध करवाया जाए। प्रमुख सचिव कृषि अजीत केसरी ने बताया कि वर्तमान समय में फसलों पर कीट व्याधि की समस्या सामने आती है। किसान कल्याण और कृषि विकास विभाग ने जिलों में दल बनाकर क्षेत्र के भ्रमण के निर्देश जारी किए हैं। कृषि वैज्ञानिकों द्वारा कीट व्याधि की समस्या के समाधान के लिए किसानों को सलाह दी जा रही है। विभागीय योजना में किसानों को आर्थिक सहायता भी दी जाती है। यदि कहीं जलभराव की स्थिति बनती है तो जल निकासी करने का किसानों को आवश्यक परामर्श दिया जा रहा है। दैनिक समीक्षा के लिए जिलास्तर पर नियंत्रण कक्ष भी बनाने के निर्देश दिए गए है। कृषि संचालनालय में भी कंट्रोल रूम गठित किया गया है।

Dakhal News

Dakhal News 22 August 2020


bhopal, Upcoming session ,Madhya Pradesh, Legislative Assembly ,notification issued

भोपाल। मध्यप्रदेश की पन्द्रहवीं विधानसभा का आगामी सत्र 21 सिम्तबर (सोमवार) से शुरू होगा। यह तीन दिवसीय सत्र 23 सितम्बर (बुधवार) तक चलेगा। इसमें सदन की तीन बैठकें होंगी। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल द्वारा अनुमोदित तदाशय की अधिसूचना विधानसभा सचिवालय द्वारा शनिवार को जारी कर दी गई है।    विधानसभा के मुख्य सचिव एपी सिंह ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि इस तीन दिवसीय सत्र में सदन की कुल तीन बैठकें होंगी, जिनमें महत्वपूर्ण शासकीय विधि विषयक एवं वित्तीय कार्य संपादित किये जाएंगे। उल्लेखनीय कि यह मप्र की 15वीं विधानसभा का सातवां सत्र होगा।

Dakhal News

Dakhal News 22 August 2020


bhopal, Former Agriculture Minister, wrote letter,Chief Minister

भोपाल। राज्य सरकार के अधीन दुग्ध सहकारी समितियों द्वारा किसानों से दूध खरीदी के दाम घटाए जाने को लेकर पूर्व कृषि मंत्री और कसरावद से कांग्रेस विधायक सचिन यादव ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखा है। उन्होंने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया है कि किसानों से दूध की खरीदी पूर्व दाम पर ही की जाए।   पूर्व कृषि मंत्री सचिन यादव ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री को भेजे पत्र में लिखा है कि राज्य सरकार के अधीन दुग्ध सहकारी समितियों द्वारा किसानों से दूध खरीदी के दाम 4 रुपये प्रति लीटर घटाए जाने से अन्नदाता पशुपालक किसान दुखी है। किसानों से दूध खरीदी के दाम घटाए जाने के बावजूद उपभोक्ताओं को भी सरकार ने कोई राहत नहीं दी है। उन्होंने किसानों के प्रति गहरी चिंता व्यक्त करते हुए कहा है कि कोविड-19 लॉकडाउन की वजह से किसानों की आर्थिक स्थिति पहले से ही ठीक नहीं थी। इसके बाद अब सरकार के इस किसान विरोधी निर्णय से किसान आर्थिक रूप से और कमजोर हो जायेंगे।   सचिन यादव ने मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि दुग्ध उत्पादक किसानों के दूध के दाम 4 रुपये कम करने के निर्णय को तत्काल प्रभाव से निरस्त कर उन्हें पूर्वानुसार दाम दिलाये जाने के आदेश दें। इस फैसले से पशुपालक किसानों को राहत मिलेगी। सचिन यादव ने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया है कि किसानों के सुरक्षित भविष्य के लिए उनके हित में फैसला ले।

Dakhal News

Dakhal News 21 August 2020


gwalior, BJP , two-day, Mahasabhaata Abhiyan , Gwalior zone, Saturday

ग्वालियर। ग्वालियर अंचल में आगामी भाजपा का दो दिवसीय महासदस्यता अभियान शनिवार, 22 अगस्त से शुरू होगा। इसके लिए अंचल में कई जगह कई कार्यक्रमों की तैयारी शुरू हो गई है। वहीं ऐसे में अब युवाओं के बीच सिंधिया समर्थक व विरोधी खेमे के गुटो के बीच पोस्टरवार की जंग शुरू हो गई है। ग्वालियर में महासदस्यता अभियान की शुरूआत के पहले ही गुटबाजी का चेहरा शहर के प्रमुख चौराहों पर पोस्टरवार के रूप में दिखने लगा है।    जानकारी के अनुसार सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया मप्र में कमलनाथ सरकार गिराने के बाद पूरे छह माह बाद पहली बार ग्वालियर आ रहे हैं। उनके साथ पूर्व केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, मप्र के सीएम शिवराज सिंह चौहान और भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वी डी शर्मा भी मुख्य रूप से ग्वालियर आ रहे हैं। शनिवार, 22 अगस्त और रविवार, 23 अगस्त को भाजपा का महासदस्यता अभियान ग्वालियर अंचल में रखा गया है। बताया जा रहा है कि कुछ कांग्रेसी व अन्य पार्टियों के कार्यकर्ता व नेतागण सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के समक्ष भाजपा का दामन थाम सकते हैं।    खास बात यह भी है कि जब से सांसद सिंधिया और उनके समर्थक 22 मंत्रियों ने भाजपा का दामन थामा है तब से भाजपा में दो धड़े हो गए हैं। एक धड़े में वह शामिल हैं, जो पहले से ही भाजपाई है और दूसरे धड़े में कांग्रेस का हाथ छोडक़र भाजपा में शामिल हुए लोग हैं। दरअसल, कांग्रेस के लोग भाजपा में शामिल हुए हैं, तब से पहले से ही भाजपा में जमे लोगों को यह बात रास नहीं आई और उन्होंने समय-समय पर तंज, टवीटर, सोशल मीडिया के द्वारा कभी पर्दे पर तो कभी पर्दे के पीछे रहकर विरोध किया है। ऐसे में अब महासदस्यता अभियान कार्यक्रम में भी युवाओं में गुटबाजी सामने निकल कर आ गई है। शहर में युवाओ ने पोस्टरवार शुरू कर दिया है, जिसमें कुछ जगह सिंधिया समर्थक युवाओं की टोली है तो दूसरी ओर सिंधिया विरोधी खेमे के लोग शामिल हैं।

Dakhal News

Dakhal News 21 August 2020


jabalpur, Congress MLA, Jabalpur North-Central ,Vinay Saxena, infected

जबलपुर। मध्यप्रदेश में कोरोना का कहर जारी है। यहां तक नेता और अधिकारी भी इसके चपेट में आने से नहीं बच पा रहे हैं। अब जबलपुर की उत्तर मध्य विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस विधायक विनय सक्सेना भी कोरोना संक्रमित हो गए हैं। उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसकी जानकारी उन्होंने स्वयं गुरुवार को ट्वीट के माध्यम से दी और उनके सम्पर्क में आने वाले लोगों से जांच कराने की अपील भी की।   कांग्रेस विधायक विनय सक्सेना ने बताया कि वे 15 अगस्त को ग्वालियर गए थे और वहां से 17 अगस्त को वापस जबलपुर लौटे हैं। जबलपुर आने के बाद वह चार व्यक्तियों के अंतिम संस्कार में भी शामिल हुए थे। उन्होंने बुधवार शाम को तबियत खराब होने के बाद अपने कोरोना टेस्ट कराया था। आईटीपीसीआर जबलपुर द्वारा गुरुवार को उनकी रिपोर्ट जारी की, जिसमें उन्हें कोरोना पॉजिटिव बताया गया। उन्होंने संक्रमित होने के बाद ट्वीट के माध्यम से सम्पर्क में आने वाले लोगों से अपील की है कि वे अपना कोरोना टेस्ट अवश्य करा लें और घरेलू एकांतवास में हो जाए, ताकि संक्रमण अन्य लोगों ने न फैले। उन्होंने बताया कि उनका तबियत फिलहाल ठीक है और वे घर पर एकांतवास में हैं।

Dakhal News

Dakhal News 20 August 2020


bhopal, Excellent roadmap , prepared ,good governance, Minister Dr. Mishra

भोपाल । गृह एवं जेल मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश में सुशासन के लिये उत्कृष्ट रोडमेप तैयार किया जायेगा। यह बात गृह मंत्री ने गुरुवार को मंत्रालय में रोडमेप के ड्राफ्ट को अंतिम रूप देने के लिये मंत्रि-परिषद समूह की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कही। वीडियो कॉफ्रेंसिंग के माध्यम से सहकारिता मंत्री अरविन्द भदौरिया, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री महेन्द्र सिंह सिसोदिया भी शामिल हुए।   बैठक में वीडियो कॉफ्रेंसिंग से कृषि मंत्री कमल पटेल ने सुझाव दिया कि सुशासन की स्थापना और आम जनता को योजनाओं का बेहतर तरीके से लाभ देने के लिये जिले के वरिष्ठ अधिकारियों की जिम्मेदारी तय होनी चाहिये। सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों और नगरीय निकायों की जनता की समस्याएँ स्थानीय स्तर पर ही निराकृत करने के लिये बेहतर सुशासन की जरूरत है। खनिज एवं साधन मंत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि वन और राजस्व की भूमि के चिन्हांकन के लिये समय-सीमा तय की जाना चाहिये।   बैठक में अपर मुख्य सचिव एस.एन. मिश्रा ने सुशासन के रोडमेप के ड्राफ्ट में शामिल किये गये प्रमुख बिन्दुओं पर विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि ड्राफ्ट में डैसबोर्ड, नॉलेज मैनेजमेन्ट प्लेटफार्म, मॉनिटरिंग सिस्टम, एनजीओ के नियमित सोशल ऑडिट, नियमों एवं कानूनों का सरलीकरण, एक ही वेबसाइट पर सारे नियम और कानून, एक गतिविधि विशेषयक- एक समेकित कानून, एक पोर्टल पर सभी योजनाओं से संबंधित पात्रता एवं योग्यता की जानकारी, फेसलेस तकनीक का उपयोग, आउटसोर्सिंग कारपोरेशन का गठन, अधिकारी-कर्मचारियों का कैडर रिव्यू, न्यू पेंशन स्क्रीम की समुचित मॉनिटरिंग के लिये उचित प्रबंधन किये जाने के लिये ड्राफ्ट में समय-सीमा तय किये जाने पर व्यापक विचार-विमर्श किया गया।   मंत्री डॉ. मिश्रा ने कहा कि आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश में सुशासन के लिये 8 अगस्त को आयोजित वेबिनार में प्राप्त सुझावों पर 14 अगस्त को पहली बार मंत्रि-परिषद समूह ने चर्चा की थी। गुरुवार को रोडमेप के ड्राफ्ट पर पुन: चर्चा की गई है। शीघ्र ही इसे अंतिम रूप दिया जाकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को सौंपा जायेगा।

Dakhal News

Dakhal News 20 August 2020


bhopal, Cleanliness Survey, Kamal Nath congratulates, demands CM ,reward sanitation workers

भोपाल। राष्ट्रीय स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 में एक बार फिर मप्र की मिनी मुंबई कहलाने वाले इंदौर ने बाजी मार ली है। लगातार चौथी बार इंदौर को राष्ट्रीय स्वच्छता सर्वेक्षण में पूरे देश में पहला स्थान मिला है। इंदौर के प्रथम आने पर मप्र के पूर्व सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने बधाई दी है।   कमलनाथ ने ट्वीट कर बधाई देते हुए कहा राष्ट्रीय स्वच्छता सर्वेक्षण -2020 में इंदौर के प्रथम आने के साथ-साथ भोपाल के देश में 7वें स्थान पर आने पर व प्रदेश के अन्य शहरों को भी मिले स्वच्छता सर्वेक्षण पुरस्कारों के लिये उन्हें, वहाँ के नागरिकों को, सफ़ाई कर्मियों, जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों, कर्मचारियों को भी बधाई देता हूँ।   एक अन्य ट्वीट कर कमलनाथ ने सीएम शिवराज से प्रदेश के सभी सफाई कर्मियों को सम्मानित करने और पुरस्कार स्वरुप सम्मान राशि दिए जाने की मांग की है। उन्होंने ट्वीट कर कहा ‘मैं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह से माँग करता हूँ कि राष्ट्रीय स्वच्छता सर्वेक्षण - 2020 में पुरस्कार पाने वाले प्रदेश के सभी शहरों के सभी सफ़ाई कर्मियों को यह पुरस्कार समर्पित करते हुए, उन्हें सम्मान स्वरुप प्रोत्साहन राशि देने की घोषणा की जावे क्योंकि इन पुरस्कारों के असली हक़दार वे ही है। जिन्होंने अपनी रात- दिन की मेहनत से इन शहरों को मूर्त रूप प्रदान किया। उन्होंने अपनी सरकार का उदाहरण देते हुए कहा मैंने अपनी सरकार में पिछले वर्ष स्वच्छता सर्वेक्षण- 2019 में पुरस्कार पाने वाले प्रदेश के शीर्ष शहरों के सभी सफ़ाई कर्मियों को यह पुरस्कार समर्पित करते हुए उन्हें प्रोत्साहन राशि प्रदान की थी। वर्तमान सरकार को भी यह निर्णय लेना चाहिये।

Dakhal News

Dakhal News 20 August 2020


bhopal, Former CM ,wrote ,Chief Minister Shivraj,  Madhya Pradesh, case , corona test

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए सरकार द्वारा गम्भीर प्रयास न किए जाने पर चिंता व्यक्त की है। उन्होंने हाल ही में आई रिपोर्ट के आधार पर कोरोना टेस्ट के मामले में मध्यप्रदेश की स्थिति देश में सबसे अंतिम है याने फिसड्डी बताया है। उन्होंने कहा है कि इससे स्पष्ट होता है कि सरकार के प्रचार-प्रसार के दावे झूठे हैं ।   पूर्व मुख्यमंत्री ने इस संबंध में मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में मांग की है कि प्रदेश में टेस्टिंग की संख्या बढ़ाई जाए, ताकि प्रदेश की साढ़े सात करोड़ जनता का जीवन सुरक्षित हो सके। कमलनाथ ने अपने पत्र में कहा कि सम्पूर्ण विश्व कोरोना वायरस की महामारी से निजात पाने के लिए हर प्रकार के जतन कर रहा है। हमारे देश और प्रदेश में भी इस महामारी को परास्त करने के लिए हर संभव कोशिश करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि बड़े अफसोस की बात है कि देश के अन्य प्रदेशों की तुलना में मध्यप्रदेश में कोरोना के टेस्ट आज भी अत्यंत कम किये जा रहे हैं। जबकि इस महामारी से नियंत्रण पाने का एक ही तरीका है कि संक्रमित लोगों को चिन्हित किया जाकर उन्हें स्वस्थ लोगों से पृथक किया जाये। पूर्व सीएम ने बताया कि अगस्त, 2020 के मध्य तक प्रति 10 लाख व्यक्तियों पर किये गये कोरोना टेस्ट में मध्यप्रदेश द्वारा किये गये टेस्ट का औसत केवल 12 हजार है जबकि दिल्ली, आंध्रप्रदेश और असम जैसे राज्यों में यह औसत 50 हजार से भी अधिक है और इस प्रकार कोरोना टेस्ट कराने में मध्यप्रदेश की स्थिति कोरोना से सर्वाधिक संक्रमित देश के 15 राज्यों में 15वीं अर्थात अंतिम है। यह स्थिति बेहद चिंताजनक है।   कमलनाथ ने अपने पत्र में आगे कहा कि सरकार द्वारा इस गम्भीर विषय पर चलाये गये अभियान केवल रस्म अदायगी एवं प्रचार-प्रसार तक ही सीमित है । स्पष्ट है कि सरकार द्वारा किये जा रहे प्रयास गंभीर नहीं हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग की है कि कोरोना जैंसे महत्वपूर्ण विषय पर गंभीर प्रयास प्रारंभ किए जाएं, ताकि हमारा प्रदेश न केवल देश में बल्कि वैश्विक स्तर पर संक्रमण मुक्त होने का उदाहरण पेश कर सके और हमारे प्रदेश के आम जन को इस महामारी से राहत मिल सके।

Dakhal News

Dakhal News 18 August 2020


bhopal, Ajay Singh ,accuses government, Farmers plagued ,black marketing

  भोपाल। मप्र विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने प्रदेश की भाजपा सरकार पर गंभीर आरोप लगाए है। उन्होंने समूचे विंध्य में खाद की व्यापक पैमाने पर कालाबाजारी का आरोप लगाते हुए कहा है कि सरकार का ध्यान केवल उन क्षेत्रों में है जहाँ जहाँ चुनाव होने है, बाकी जगह सरकार ने किसानों एवं आम जनता को उसके हाल पर छोड़ दिया है। पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने दावा करते हुए कहा है विन्ध्य के किसानों की हिस्से की खाद उन क्षेत्रों में भेज दी गई है जहाँ चुनाव होने हैं। सरकार के इस गैर जिम्मेदाराना रवैये से बिचौलियों की चांदी हो गयी है और वो मनमाने दाम पर किसानों को खाद बेंच रहे हैं। हताश और परेशान किसान 266 रुपये की यूरिया 500 रुपये में लेने के लिए मजबूर है।   अजय सिंह ने मंगलवार को एक बयान जारी कर प्रदेश सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि बिचौलियों को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से सरकारी गोदाम एवं समितियों से खाद गायब कर दी गई है। जिसकी वजह से निजी दुकानदार किसानों को खुलेआम लूट रहे हैं। अजय सिंह ने आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि सरकारी महकमे को जानकारी होने के बाबजूद अधिकारी न तो खाद की कालाबाजारी रोक पा रहे हैं और न ही निजी दुकानदारों के खिलाफ कोई कार्यवाही कर पा रहे हैं। इससे साफ जाहिर होता है कि खाद की कालाबाजारी और किसानों के साथ लूट सरकार की सरपरस्ती में हो रही है।   अजय सिंह ने प्रदेश के मुख्यमंत्री से अपील करते हुए कहा कि आप केवल उन क्षेत्रों के मुख्यमंत्री नहीं हैं जहाँ चुनाव होने हैं। षडयंत्रों के दम पर सत्ता हंथिया लेने का यह मतलब नही की गरीब किसानों की जेब में खुलेआम डकैती डाली जाए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को चाहिए को वो किसानों की पीड़ा को समझें और खुलेआम हो रही खाद की कालाबाजारी पर रोक लगाते हुए किसानों को सरकारी दर पर खाद उपलब्ध कराएं।  

Dakhal News

Dakhal News 18 August 2020


bhopal, Narottam Mishra, big statement , notice,Supreme Court

भोपाल। सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस से बगावत करके भाजपा में शामिल हुए 22 विधायकों को अयोग्य घोषित करने की याचिका पर विचार न किए जाने के मामले में मध्य प्रदेश के विधानसभा अध्यक्ष सहित अन्य को नोटिस जारी कर जवाब-तलब किया है। इसके लिए 21 सितंबर तक का समय दिया गया है। सुप्रीम कोर्ट के नोटिस पर मप्र के गृह एवं जेल मंत्री नरोत्तम मिश्रा का बड़ा बयान सामने आया है।   गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने मंगलवार को मीडिया से बातचीत सुप्रीम कोर्ट द्वारा विधानसभा अध्यक्ष को नोटिस पर कहा कि विधायको के ज्ञान पर प्रश्न नही है, न ही में कोर्ट की अवमानना कर रहा हूं, लेकिन मैं स्पष्ट कर दूं कि, योग्यता का प्रश्न तब होता है, जब सम्मानित सदस्य, सदस्य होता है। उन्होंने कहा कि विधायक को यह जान-समझ लेना चाहिए कि वे सभी विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने के बाद मंत्री बने हैं। अयोग्यता का सवाल तब खड़ा होता है जब वे सदन का सदस्य बने रहते। पता नहीं वे क्यों न्यायालय का समय बर्बाद कर रहे हैं।   ज्योतिरादित्य सिंधिया के विरोध पर कांग्रेस को घेरा  सोमवार को इंदौर- उज्जैन प्रवास पर पहुंचे ज्योतिरादित्य सिंधिया का कांग्रेस द्वारा विरोध किए जाने पर मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस का घेराव करते हुए कहा कि कांग्रेस के कार्यकर्ता जो है न जाने, जैसे तैसे जीत कर 2 से 4 सीट भाजपा से ज्यादा ले आए, कांग्रेस के नेता तो भोपाल में बैठे थे। उन्होंने दिग्विजय और कमलनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि विधानसभा चुनाव में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने खड़ी फसल दिग्विजय सिंह और कमलनाथ ने खत्म कर दी। इसके लिए उन दोनों का वरोध होना था। दंडोतिया और ज्योतिरादित्य सिंधिया का विरोध कांग्रेस की ध्यान भटकाने की साजिश है।   कांग्रेस करती है दो मुँह की राजनीति दिग्विजय सिंह का सीएम शिवराज को बासमती के जीआई टैग को लेकर धरने पर बैठने की बात पर मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि कांग्रेस की विचित्र स्तिथि है। एक पूर्व मुख्यमंत्री कहते है कि बासमती का दर्जा नही मिले, एक पूर्व मुख्यमंत्री कहते है कि सीएम शिवराज हमारे साथ  धरने पर बैठे। उन्होंने कहा कि दो मुँह की राजनीति करते है ये लोग, किसान और जनता को बेवकूफ समझते है, इसलिए कांग्रेस अब सम्माप्ति की ओर है। उपचुनाव का बजट बढ़ाउपचुनाव का बजट 3 हजार करोड़ को लेकर नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि यह सबको पता है कि उनके क्षेत्र की उपेक्षा की गई है, किसी प्रकार से विकास हुआ नही, इसलिए यह प्रवधान किया गया है।

Dakhal News

Dakhal News 18 August 2020


bhopal, Link Kisan Credit Card, Aadhaar,proper benefits, Minister Patel

भोपाल।  किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री कमल पटेल ने सोमवार को मंत्रालय में कृषि विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ किसानों को अधिक से अधिक लाभ दिलाने के लिये वित्त के उचित प्रबंधन के लिये चर्चा की। उन्होंने कहा कि किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का समुचित लाभ दिलाने के लिये किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) को आधार से लिंक कराने के लिये आवश्यक सहयोग प्रदान किया जाये। पटेल ने किसानों से भी आग्रह किया कि वे अपने के.सी.सी. को आधार से लिंक कराये।   मंत्री पटेल ने बैठक में कृषि उत्पादन आयुक्त के.के. सिंह, प्रमुख सचिव कृषि अजित केशरी और संचालक कृषि संजीव सिंह को विभागीय योजनाओं से संबंधित वित्तीय वर्ष 2020-21 में विभाग को आवंटित बजट को किसान हितैषी बनाये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने विभाग की विभिन्न केन्द्र प्रवर्तित एवं राज्य शासन की योजनाओं के क्रियान्वयन की अद्यतन स्थिति की जानकारी प्राप्त की और विभिन्न योजनाओं के माध्यम से किसानों को अधिकाधिक लाभ पहुंचाये जाने के लिए निर्देशित किया।

Dakhal News

Dakhal News 17 August 2020


indore,Congressman arrested ,without permission , school fee waiver

इंदौर। निजी स्कूलों में फीस माफी को लेकर सोमवार की सुबह विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 2 में कांग्रेसियों ने बिना अनुमति एक साथ 18 चौराहों पर धरना प्रदर्शन किया गया। इसके साथ ही लोगों से हस्ताक्षर भी कराए गए। धरना-प्रदर्शन की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और कांग्रेस नेताओं से इसकी अनुमति मांगी तो वह दिखा नहीं सके। इस पर नेताओं को गिरफ्तार कर लिया गया। इस दौरान जमकर नारेबाजी और हंगामा भी हुआ।   कोरोना संक्रमण के चलते लॉकडाउन के दौरान स्कूल न लगने के बावजूद तीन माह की फीस माफ करने और ट्यूशन फीस की जगह पूरी फीस लेने का विरोध पालकों ने किया, मगर इसका कोई खास असर नहीं हुआ। निजी स्कूलों में फीस माफी को लेकर अब कांग्रेस ने मैदान संभाल लिया है। इसके चलते सोमवार सुबह भाजपा के गढ़ दो नंबर विधानसभा में एक साथ 18 जगह कांग्रेस नेताओं ने धरना देकर हस्ताक्षर अभियान चलाया। कांग्रेस नेता चिंटू चौकसे और राजू भदौरिया के नेतृत्व में यह धरना-प्रदर्शन हुआ, जो कि प्रदेश की भाजपा सरकार के खिलाफ था। इसमें कांग्रेस का आम जनता ने भी सहयोग किया, क्योंकि हर पालक की मांग है कि लॉकडाउन के तीन महीने की फीस पूरी तरह से माफ की जाए।   कांग्रेस ने वार्ड 18 में बाणगंगा नाका, वार्ड 21 में एमआर-10 चौराहा, वार्ड 24 में सुभाष नगर चौराहा, वार्ड 27 में अनूप टॉकीज चौराहा, वार्ड 30 में मालवीय नगर चौराहा, वार्ड 33 में सुखलिया टेम्पो स्टैंड चौराहा, वार्ड 19 में गणेशधाम चौराहा, वार्ड 22 में मारुति नगर चौराहा, वार्ड 25 में नंदा नगर चौराहा, वार्ड 28 में भमोरी चौराहा, वार्ड 31 में रसोमा चौराहा, वार्ड 34 में रघुवंशी चौराहा, वार्ड 20 में पटेल मार्केट, वार्ड 23 में परदेशीपुरा चौराहा, वार्ड 26 में पाटनीपुरा चौराहा, वार्ड 29 में विजय नगर चौराहा और वार्ड 32 में 78 टेम्पों स्टैंड पर धरना देकर हस्ताक्षर अभियान चालाया।   इसलिए किया आंदोलन    कांग्रेस नेता चौकसे और भदौरिया का कहना है कि राज्य सरकार के श्रेय पर स्कूल संचालकों की मनमानी जारी है। ट्यूशन फीस के नाम पर पूरी फीस वसूली जा रही है। सवाल यह है कि 3 महीने तक लगे लॉकडाउन के दौरान स्कूल नहीं लगे तो फिर संचालक फीस क्यों मांग रहे हैं? राज्य सरकार को ट्यूशन फीस लेने की छूट देने के बजाय पालकों की मांग पर ध्यान देते हुए फीस माफ करना चाहिए थी, क्योंकि देश के अन्य राज्यों में ऐसा हुआ है। अभी भी स्कूल नहीं लग रहे हैं, लेकिन ऑनलाइन पढ़ाई के नाम पर स्कूल संचालक पालकों पर फीस भरने का दबाव बना रहे हैं। स्कूल फीस को लेकर आम जनता के प्रति सरकार का रवैया ठीक नहीं है। इसलिए राज्य की भाजपा सरकार के खिलाफ यह आंदोलन कर फीस माफी की मांग की जा रही है। लोगों से जो हस्ताक्षर कराए जा रहे हैं, उसको ज्ञापन के रूप में कलेक्टर को देकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तक पहुंचाया जाएगा।   गिरफ्तार कर अस्थाई जेल भेजा    स्कूल फीस माफी को लेकर कांग्रेस द्वारा सोमवार को हस्ताक्षर अभियान शुरू किया गया, लेकिन 11 बजे पुलिस वहां पहुंच गई और उनसे अभियान की अनुमति मांगी इस पर वहां मौजूद कांग्रेसी अनुमति नहीं दिखा सके। इस पर पुलिस ने कांग्रेसियों को गिरफ्तार कर लिया। हीरानगर थाना प्रभारी राजीव भदौरिया ने बताया कि बिना अनुमति कार्यक्रम कर रहे 20 कांग्रेसियों को गिरफ्तार किया गया है। उन्हें असरावद खुर्द की अस्थाई जेल में भेजा गया है और भी स्थानों पर भी पुलिस ने कार्रवाई करते हुए कांग्रेसियों को गिरफ्तार किया।  

Dakhal News

Dakhal News 17 August 2020


agar malwa, MLA Vijay Mishra , Uttar Pradesh government , kill me anytime

आगरमालवा। उत्तरप्रदेश के भदौनी जिले की ज्ञानपुर के विधायक विजय मिश्रा को उत्तरप्रदेश की पुलिस शनिवार को अपने साथ ले गई। उत्तरप्रदेश रवाना होने से पहले विधायक मिश्रा ने मीडिया से चर्चा की। इस दौरान विधायक ने यह संदेह जताया कि उत्तरप्रदेश सरकार कभी भी मेरी हत्या करा सकती है।   आगरमालवा में पत्रकारों से चर्चा करते हुए विधायक मिश्रा ने यूपी सरकार व मुख्यमंत्री, सांसद, विधायक व अन्य नेताओं पर कई आरोप लगाये। उन्होंने कहा कि हम जिस घर में पिछले 32 वर्षो से रह रहे है, विरोधी  कह रहे है कि घर हमारा है। उन्होंने कहा कि आगामी दिनों में होने वाले पंचायतो के चुनावों के चलते पुलिस ने जबरन मुकदमा दर्ज कराया है। उन्होंने कहा कि चुनावों के कारण वहां के जातिगत माफिया सांसद वीरेन्द्रसिंह, एमएलसी विनयसिंह, विधायक सुशीलसिंह, राजा भैया आदि लोग मेरी हत्या कराने की साजिश कर रहे है। विधायक ने आरोप लगाया कि सरकार वहां ब्राह्मणों का सफाया करना चाहती है और केन्द्र की भाजपा सरकार को उत्तरप्रदेश की सरकार कमजोर करना चाहती है। मिश्रा ने यूपी सरकार तथा मुख्यमंत्री पर आरोप लगाये कि रास्ते में, जेल में, हवा से, पानी से, बिजली के करंट से, एक्सीडेंट से, किसी अपराधी से, कहीं से भी मुख्यमंत्री जब चाहेंगे मेरी हत्या  करा सकते है। उन्होंने कहा कि मेरी मौत् के लिए दोषी केवल उत्तरप्रदेश सरकार होगी । विधायक मिश्रा ने कहा कि उन्होंने 12 अगस्त को एक ऑडियो-विडियो जारी किया है, जिसमें विस्तार से अपना पक्ष रखा है।

Dakhal News

Dakhal News 15 August 2020


indore,Country dire crisis, economic growth ,goes into minus, Jeetu Patwari

इंदौर। मप्र की कमलनाथ सरकार में मंत्री रहे कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि डॉ. मनमोहन सिंह की सरकार के समय देश की आर्थिक ग्रोथ 10 फीसदी थी, जो अब माइनस में चली गई है। देश इस समय भयावह संकट में है।   दरअसल, स्वतंत्रता दिवस की 73वीं वर्षगांठ के मौके पर इंदौर में कांग्रेस कार्यालय में पार्टी के शहर अध्यक्ष विनय बाकलीवाल द्वारा झंडावंधन किया गया। इस मौके पर पूर्व मंत्री जीतू पटवारी, विधायक संजय शुक्ला समेत कांग्रेस के सभी बड़े नेता और कार्यकर्ता मौजूद रहे। इस दौरान काफी भीड़ थी, लेकिन सभी शारीरिक दूरी बनाए हुए थे और सभी ने मास्क पहनकर स्वतंत्रता दिवस मनाया। इस दौरान पूर्व मंत्री जूती पटवारी ने इंदौर के साथ ही प्रदेशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी।    उन्होंने कहा कि आजादी का पर्व इसलिए मनाया जाता है कि ताकि हमारे बच्चों को पता चल सके कि हमें आजादी कैसे मिली। साथ ही उन्हें यह पता चल सके कि देश पहले होता है, बाकी सब बाद में। इस दौरान जीतू पटवारी ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि आज देश के हालात ऐसे हैं कि वह विश्व में सबसे बड़ा बेरोजगार देश बन गया है। देश के सामने कई चुनौतियां हैं, आजादी के बाद पहली बार ऐसा हुआ जो मनमोहन सरकार में 10 फीसदी तक आर्थिक ग्रोथ रही थी, वह माइनस में चली गई है। कृषि की ग्रोथ भी समाप्त हो गई है। इसलिए देश भयावह संकट में है। कांग्रेस ने देश को आजादी दिलवाई। इस संकट से भी बाहर निकालने में कांग्रेस सहयोग करेगी।

Dakhal News

Dakhal News 15 August 2020


bhopal, Former VIS president, raised questions, appointment,Protem Speaker