राजनीति


purv mukhya mantri digvijay singh mehgai berojgari

  महंगाई,बेरोजगारी से ध्यान भटकाया जा रहा   ज्ञानवापी और भोपाल की जामा मस्जिद को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का बयान सामने आया है दिग्विजय ने कहा देश का ध्यान महंगाई, बेरोजगारी से भटकाने के लिए यह सब किया जा रहा है वहीं गुना पुलिस हत्याकांड को लेकर उन्होंने बीजेपी को आड़े हाथों लिया ज्ञानवापी और भोपाल की जामा मस्जिद को लेकर दिग्विजय ने कहा महंगाई, बेरोजगारी से ध्यान हटाने के लिए यह सब किया जा रहा हैज्ञानवापी मामले पर उन्होंने कहा इस मामले पर कांग्रेस का रुख साफ है इस देश में रुपए का अवमूल्यन होता जा रहा है महंगाई बढ़ती जा रही है सरकार ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है गुना शिकार मामले पर उन्होंने  कहा वीडी शर्मा तो मेरा किला तोड़वाने वाले थे जितने दावे बीजेपी नेताओं ने किए वह झूठे निकले जो जिंदा है उसके नाम पर झूठी  फोटो लगाई जा रही है जो कुछ हुआ है बहुत ही  वीभत्स  घटना है पुलिस के 3 लोगों की हत्या की गई है इसकी हम निंदा करते हैं अपराधियों को कठोर सजा मिलनी चाहिए ओबीसी आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर बोले उन्होंने कहा यह दुर्भाग्य है कि जिन पिछड़ा वर्ग को आरक्षण  27%  सन 94 से मिल रहा था इस सरकार की मूर्खता के कारण 27% से घटकर 14% रह गया भोपाल में जामा मस्जिद के नीचे शिव मंदिर के दावे पर  दिग्विजय सिंह ने कहा की महंगाई बढ़ती जा रही है तनख्वाह  कम होती जा रही है सब ध्यान भटकाने के लिए है

Dakhal News

Dakhal News 19 May 2022


shivraj singh chouhan mukhya mantri bhopal samsya

पानी के लिए इंतज़ार में खड़े लोगों बीच पहुंचे   जननायक की तरह सहज भाव से सुनी समस्या अपने अलग अंदाज के लिए जाने जाते हैं शिवराज यूं ही नहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पाओं पाओं  वाले भैया कहते हैं शिवराज ने जन नायक होने की कई बार मिसाल पेश की है ऐसा ही वाक्या एक बार फिर भोपाल में देखने को मिला जब पानी के इंतजार में लोगों को खड़ा देख शिवराज सिंह चौहान ने खुद अपना काफिला रोक लिया और लोगों के बीच पहुंच गए उन्होंने लोगों की पानी की समस्या को सुना और तत्काल निगम आयुक्त को फोन कर समस्या को सुधारने के निर्देश दिए शिवराज का यही अंदाज  उन्हें दूसरे नेताओं से उनको अलग करता है शिवराज सिंह चौहान वाकय में जमीन से जुड़े नेता हैं वे लोगों की समस्या जानते हैं बड़े ही सहज तरीके से आमजन उनके पास समस्या लेकर जाते हैं जिनका वे निराकरण करते हैं मुख्यमंत्री बनने से पहले भी वे हमेशा लोगों के बीच पहुँच जाते थे और लोगों से समस्या को लेकर चर्चा करते थेअभी वे उतने ही सहज और सरल है दरअसल भोपाल के नेहरू नगर के शबरी नगर से शिवराज का काफिला गुजर रहा था की अचानक उनकी नजर पानी के इन्तजार में खड़े लोगों पर पड़ी उन्होंने तत्काल काफिले को रोकने का निर्देश दिया और खुद लोगों के बीच पहुँच गए उन्होंने लोगों की समस्या सुनी लोगों ने खुद की समस्याएं शिवराज को ऐसे बताई जैसे शिवराज से  उनकी बरसों से जान पहचान हो और शिवराज ने भी उसी धैर्यता के साथ लोगों को सुना लोगों ने बताया की करीब एक हफ्ते से पानी नहीं आ रहा था और अब जो पानी आ रहा है वो मटमैला है पीने योग्य नहीं है इस पर शिवराज ने  वहीं से निगम आयुक्त को फोन लगा दिया शिवराज ने जल्द से जल्द जलापूर्ति व्यवस्था सुधारने के निर्देश दिए

Dakhal News

Dakhal News 19 May 2022


kamalnath purv mantri dr. narottam mishra ghra mantri rahul gandhi chunav congress bjp

फिर कोर्ट जाकर OBC के साथ विश्वासघात करेंगे गृहमंत्री डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर तंज कस्ते हुए कहा कीराहुल गांधी से और क्या उम्मीद की जा सकती है भारत की श्रीलंका से तुलना करना बहुत ही हास्यास्पद है उन्होंने पूर्व सीएम कमलनाथ पर निशाना साधते हुए कहा की कमलनाथ फिर अदालत जाने की बात कह रहे हैं कांग्रेस पिछड़ा वर्ग का अहित करने पर उतारू हैनरोत्तम मिश्रा ने कहा कमलनाथ जनता की अदालत से क्यों भाग रहे हैं वे  दोबारा न्यायालय जाने की बात कह कर एक बार फिर से पिछड़ा वर्ग का अहित करने पर उतारू है कमलनाथ जब पहली बार कोर्ट गए थे अदालत में निर्वाचन शून्य करा दिया था मुख्यमंत्री शिवराज की  दृढ़ इच्छाशक्ति और परिश्रम से ही हम पुनः आरक्षण के साथ स्थाई निकाय निर्वाचन कराने जा रहे हैं कमलनाथ का पुनः कोर्ट में जाने संबंधी बयान पिछड़ो के साथ साथ विश्वासघात है जब सरकार आरक्षण के साथ चुनाव कराने जा रही थी तब विवेक तनखा कोर्ट क्यों गए थे और जाने के बाद उन्होंने निर्वाचन शून्य क्यों करायानरोत्तम मिश्रा ने कहा  मध्यप्रदेश में हमारे आराध्य के प्रति अनुचित टिप्पणी करने वालों को जेल भेजेंगेभूलकर भी कोई ऐसी गलती नहीं करें बड़ी मार करतार की , दे मन से उतार कांग्रेस को जनता अपने मन से उतार उतार चुकी है अब कांग्रेस कुछ भी कर ले कुछ नहीं होगा कमलनाथ जी की कलई खुल चुकी है  

Dakhal News

Dakhal News 19 May 2022


shivraj sing chouhan mukhya mantri madhya pradesh jivit vayakti

अब मुर्दा बोला - साहब मैं जिंदा हूँ एमपी अजब है वाकय गजब है एमपी  में  एक ऐसा मामला सामने आया है जहां शिवराज सरकार के अफसर एक जीवित व्यक्ति को मरा घोषित कर चुके हैं और वह मरा हुआ व्यक्ति अपने जिंदा होने का सबूत देने के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर काट रहा है उमरिया जिले से आये दिन अजीबो  गरीब मामले सामने आते हैं यहां  कभी मुर्दे प्रधानमंत्री आवास का लाभ लेते हैं तो कभी मनरेगा में मजदूरी करते नजर आते हैं ऐसे ही एक मामले में  मृत घोषित व्यक्ति  अपना आवेदन लेकर कलेक्टर की जनसुनवाई में पहुंचा तो कलेक्टर साहब मामला देखकर हैरान रह गए कलेक्टर साहब ने भी व्यक्ति को आश्वस्त किया कि  तुम जिंदा हो लेकिन साहब सरकारी दफ्तर के रिकॉर्ड ये मानने को तैयार नहींदरअसल उमरिया  के  ताला बड़खेड़ा गांव से आये इस व्यक्ति को परिवार के ही लोगों ने राजस्व रिकार्ड में अफसरों से मिलकर इसे  मृत घोषित करा  दिया जिसके बाद अब वह अपने को जिंदा साबित करने के लिए पिछले 28 साल से भूत बनकर सरकारी दफ्तरों के चक्कर काट रहा है कलेक्टर ने इस मामले में अब जांच की बात कही है

Dakhal News

Dakhal News 18 May 2022


purvmantri jitu patwari

कांग्रेस बीजेपी का एक दूसरे पर आरोप गुना पुलिस हत्याकांड को लेकर राजनीति थमने का नाम नहीं ले रही एक तरफ कांग्रेस शिकारियों को लेकर भाजपा पर आरोप लगा रही है तो वहीं बीजेपी कांग्रेस पर निशाना साध रही कैबिनेट मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया ने दिग्विजय सिंह और जयवर्धन सिंह  शिकारियों के फोटो दिखाए वहीं कांग्रेस नेता जीतू पटवारी ने  बीजेपी पर सत्ता के लिए  शिकारियों   के संरक्षण की बात कही गुना पुलिस हत्याकांड मामले में दिग्विजय सिंह को बीजेपी ने घेरने का प्रयास किया बीजेपी ने  आरोप लगाया की दिग्विजय सिंह ने शिकारियों का संरक्षण किया कैबिनेट मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया ने दिग्विजय सिंह और जयवर्धन सिंह के साथ शिकारियों की फोटो शेयर कीऔर अपने साथ बदमाश के फोटो पर सफाई दी उन्होंने कहा बीजेपी जिला उपाध्यक्ष के निवास पर भोजन करने के लिए गया था उसी दौरान वहां पर कई लोग अपनी समस्याएं लेकर आए हुए थे ये फोटो उसी समय का है इस मामले में  कांग्रेस नेता जीतू पटवारी ने आरोप लगाया की सीएम शिवराज आपने सत्ता के बदले में ग्वालियर और चंबल संभाग को उन लोगों को ठेके पर दे दिया हैं जो आपकी सत्ता हवस पूरी करने के सहयोगी बने हैं गुना के गुनहगारों को बीजेपी के नेता और एक मंत्री का संरक्षण सामने आने के बाद भी आप मौन हैं

Dakhal News

Dakhal News 17 May 2022


chikisha shiksha mantri vishwas sarang gyanwyapi manjit shivling congress bjp hindu mandiro

ज्ञानव्यापी शिवलिंग पर कांग्रेस ने नहीं किया ट्वीट   शिकारियों को संरक्षण देना कांग्रेस की आदत चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने ज्ञानव्यापी मस्जिद में शिवलिंग मिलने पर कहा की हम सब उत्साहित है नंदी बाबा प्रकट हुए है हिन्दू मंदिरों को चोट पहुँचाकर निर्माण किये गए है जब इतिहास में अनर्गल हुआ है तो उसको ठीक करने का भी मौका मिलना चाहिए शिकारियों के तीसरे एनकाउन्टर पर उन्होंने कहा की शिकारियों को संरक्षण देना कांग्रेस की आदत  है ज्ञानव्यापी मस्जिद में शिवलिंग मिलने पर विश्वास सारंग ने कहा कीनंदी बाबा प्रकट हुए है लेकिन अब कुछ जयचंदों  के पेट मे दर्द हो रहा है मस्जिद में  बाबा प्रकट होने पर  कांग्रेस नेता राहुल गांधी अब ट्वीट क्यों नहीं कर रहे कांग्रेस के नेताओं को सांप सूंघ गया है कांग्रेस हिन्दू विरोधी बाते करती है सिर्फ वोट के लिए हिन्दू बनते है नीमच झगड़े पर दिग्गी के ट्वीट पर उन्होंने निशाना साधते हुए कहा की दिग्विजय हिंदू विरोधीमानसिकता से बाहर नहीं निकल पा रहे है वो तुष्टिकरण की राजनीति कर रहेनगरदोय कार्यक्रम पर सारंग ने कहा की सीएम शिवराज  की विकास की सरकार है शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में विकास कर रहे है स्ट्रीट वेंडर्स को लोन दिया गया है पानी बिजली की व्यवस्था की जा रही है कम्युनिटी हॉल से लेकर हॉस्पिटल तक बन रहे है मुख्यमंत्री संजीवनी क्लीनिक स्थापित हो रहे है शिकारियों के तीसरे एनकाउन्टर पर सारंग ने कहा शिकारियों को संरक्षण देना कांग्रेस की आदत है आज सुबह एक और  एनकाउंटर किया गया है अब तक 3 एनकाउंटर हो गए है वहीं धर्मांतरण पर उन्होंने कहा की आरोपियों को पकड़ा गया  है जो गलत करेगा किसी को बख्शा नहीं जाएगा|  

Dakhal News

Dakhal News 17 May 2022


home minister narottam mishra guna police hatya kand

पुलिस हत्या कांड में था शामिल,दो अभी फरार नरोत्तम :अपराधी पुलिस के सामने सरेंडर करें गुना पुलिस हत्या कांड में  एक और आरोपी शिकारी की मौत हो गई बताया जा रहा है फरार जाहिर उर्फ़ छोटू को जब पुलिस ने घेर लिया तो उसने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी वहीं जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने जहीर को मार गिराया इसको लेकर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि अपराधियों को सरेंडर करना चाहिए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने गुना पुलिस हत्याकांड को लेकर कहा की आरोपियों को सरेंडर कर देना चाहिए सभी फरार आरोपी सरेंडर कर दें उन्होंने बताया की  गुना  के धर्मावदा भदोली मार्ग पर तड़के सुबह छोटू उर्फ जहीर  के होने की सूचना मिली थी सूचना पर पुलिस ने घेराबंदी की लेकिन जहीर  ने सरेंडर करने के स्थान पर पुलिस पर फायरिंग की जिसमें एक पुलिस आरक्षक को गोली लगी है गाड़ी पर भी गोलियां लगी है वहीं पुलिस की जवाबी कार्यवाही में अपराधी जहीर  मारा गया अभी दो लोग और फरार है|  

Dakhal News

Dakhal News 17 May 2022




narottam mishra bjp digvijay singh gandhi pariwar congress arun yadav rahul gandhi

राहुल गांधी भारत मां से जुड़े नहीं इसलिए कर्ज नहीं  गृहमंत्री डॉक्टर  नरोत्तम मिश्रा ने  पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह को आड़े हाथों लेते हुए कहा की दिग्विजय सिंह जैसे रोग के निवारण के लिए जनता ने 15 साल पहले ही वैक्सीन लगा दी थी उन्होंने कांग्रेस नेता अरुण यादव के बयान को लेकर कहा की अरुण यादव  इसी तरह बोलते रहे तो हो सकता है राज्य सभा में चांस मिल जाए मिश्रा ने इस दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी और कांग्रेस के चिंतन शिविर पर भी निशाना साधानरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी के भारत माता वाले बयान पर पलटवार करते हुए कहा की भारत माता की हर संतान मां की ऋणी है हर शख्स अपनी मां का कर्जदार है लेकिन राहुल गांधी जैसे नेता ऐसा कह सकते हैं किउन्होंने अपनी मां से एक भी रुपया नहीं लियाक्योंकि उनका भारत माता से कभी अटैचमेंट रहा ही नहीं हमारा तो रोम-रोम भारत माता का ऋणी है उन्होंने दिग्विजय सिंह को लेकर कहा की दिग्विजय जैसे रोग के निवारण के लिए जनता ने 15 साल पहले ही वैक्सीन लगा दी थी हर 5 साल बाद जनता एक बूस्टर डोज भी लगा देती है लोकसभा चुनाव में भी भोपाल की जनता ने एक बूस्टर डोज दिग्विजय सिंह को लगाया था कांग्रेस शिविर पर तंज कस्ते हुए मिश्रा ने कहा   उदयपुर का चिंतन शिविर गांधी परिवार की चिंता का शिविर था कांग्रेस आलाकमान की मध्यप्रदेश में कोई नहीं सुनताछोटे-बड़े चाचा जो तय करते हैं वही होता हैनरोत्तम मिश्रा ने कहा गुना कांड में एक अपराधी पुलिस के साथ रात में हुई मुठभेड़ में एक उसके बाद एनकाउंटर में मारा गया हैदो  घायल हैलाचार की तलाश जारी हैजल्द ही उन चारों को भी ढूंढ लिया जाएगा कानून अपना काम सख्ती से करेगा अपराधी अच्छे से समझ ले किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा कार्यवाही ऐसी होगी कि नजीर बनेगी वहीं भोपाल के क्राइस्ट मेमोरियल स्कूल में धर्मांतरण को लेकर कहा कीसूचना मिलने पर तत्काल FIR दर्ज की गई है खुफिया विभाग को पूरे प्रदेश में इस प्रकार की गतिविधियों पर नज़र रखने के निर्देश दिए हैं  जनता ने दिग्विजय जैसे रोग की वैक्सीन लगा दी है

Dakhal News

Dakhal News 16 May 2022


shivraj singh chouhan police nagriko apradhi

कानून व्यवस्था को लेकर सीएम ने की बैठकमुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कानून व्यवस्था  को लेकर  बैठक बुलाई इस दौरान उन्होंने कहा की कानून व्यवस्था बनाए रखना मेरी सर्वोच्च प्राथमिकता है पुलिस का कार्य है सभी नागरिकों के लिए शांति से जीने की व्यवस्था करें अपराधियों को नेस्तनाबूद किया जायेगासीएम शिवराज ने बैठक में कहा की अपराधियों को छोड़ा नहीं जायेगा मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि शिकार करने वालों और  अवैध शराब का कारोबार करने वालों को क्रैश किया जाए मुख्यमंत्री  ने कहा कि गुना की घटना से मैं बहुत बेचैन हूं मेरा संकल्प है किसी भी अपराधी को नहीं छोड़ा जाएगा अपराध नियंत्रण की  शीघ्र ही पुनः समीक्षा की जाएगीइस दौरान पुलिस महानिदेशक सुधीर कुमार सक्सेना भी मौजूद रहे

Dakhal News

Dakhal News 15 May 2022


bhupendra singh nagriya vikhas or aawas mantri

बदलेगा पूर्व सीएम कमलनाथ का फैसला प्रत्यक्ष चुनाव के लिए अध्यादेश लाया जाएगा   कोर्ट के आदेश के बाद नगरीय निकायों के चुनाव को देखते हुए सरकार बड़ा फैसला  कर रही  है नगर पालिका में महापौर और नगर परिषदों में अध्यक्ष का चुनाव जनता करेगी महापौर का चुनाव अप्रत्यक्ष कराये जाने के  पूर्व की कमलनाथ सरकार  के फैसले को बदला जाएगा इसके लिए सरकार अध्यादेश लाएगीमहापौर और नगर परिषदों में अध्यक्ष के चुनाव को लेकर सरकार का फैसला सामने आया है कमलनाथ सरकार के फैसले को शिवराज सरकार बदलेगी स्थानीय निकायों में  महापौर और  अध्यक्ष को जनता चुनेगी यानि प्रत्यक्ष प्रणाली से चुनाव होंगे नगरीय विकास एवं आवासमंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा चुनाव पुराने नियम से ही होंगे एक शहर में एक ही महापौर होगा महापौर और अध्यक्ष शहर का प्रतिनिधित्व करता है वह  जनता से निर्वाचित होना चाहिए इसमें जोड़ तोड़ खरीद फरोख्त की गुंजाइश नहीं होती है निष्पक्षता के साथ जनता को अपना महापौर अध्यक्ष चुनने का अवसर मिलता है इसके लिए अध्यादेश लाया जाएगा जिसकी जानकारी आयुक्त को दे दी गई है|

Dakhal News

Dakhal News 14 May 2022


v d sharma congress digvijay singh

हत्यारों के साथ दिग्विजय का क्या सम्बन्ध हत्यारों से दिग्विजय के सम्बन्ध की जांच हो पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले में वीडी शर्मा ने कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह को घेरा हैभाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कहा  की अपराधी राधौगढ़ किले से लगे गांव के लोग हैआज के समय में भी ये किसके संरक्षण में शिकार कर रहे हैं इसकी जांच होनी चाहिए उन्होंने कहा दिग्विजय सिंह के आरोपियों से क्या संबंध हैइसकी जांच भी होनी चाहिएगुना में तीन पुलिसकर्मियों की हत्या से आक्रोशित वीडी शर्मा ने कहा की राघवगढ किले से जुड़े गांव बुधौलिया के लोगों को किसका संरक्षण हैइसकी जांच होनी चाहिए ऐसे दुर्दांत अपराधी जो पुलिस पर गोलियां बरसाते हैंइतनी बड़ी संख्या में हथियार कहा से आये  किसके संरक्षण में आये शर्मा ने कहा दिग्विजय सिंह इस बात का जवाब दें कि उनका दुर्दांत अपराधियों के साथ क्या संबंध है स्थानीय लोगों का ऐसा मानना है की राधौगढ़ किले से जुड़े लोग हैं जिनकी आदत इस प्रकार की आज से नही बल्कि ये लगातार इस तरह के कृत करते आए हैंइनको हमेशा इस प्रकार का संरक्षण मिला हैइस की जांच होनी चाहिए कि दिग्विजय सिंह का इन आरोपियों से क्या संबंध हैजांच एजेंसियों को भी इस संबंध में जांच करनी चाहिए इस दौरान उन्होंने सिपाहियों की हत्या पर दुःख जताते हुए हत्या को दुर्भाग्यपूर्ण बताया |

Dakhal News

Dakhal News 14 May 2022


obc rakshan singroli shiv raj singh chouhan

सीएम का प्रयास है कि आरक्षण के साथ चुनाव होंपंचायत चुनाव को लेकर कोर्ट के आदेश के बाद भी सियासत जारी है सिंगरौली में भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष शीर्ष कांतदेव सिंह ने कहा किनगरीय निकाय एवं पंचायतों के चुनाव कांग्रेस के कारण टले  भाजपा ने आरक्षण के लिए परिसीमन किया भाजपा  चुनाव कराना चाहती थीलेकिन कांग्रेस की याचिका की वजह से ओबीसी वर्ग को आरक्षण नहीं मिल पा रहा हैंओबीसी आरक्षण और पंचायत चुनाव का मुद्दा इस समय जोरों पर है भाजपा के उपाध्यक्ष ने पंचायत चुनाव में ओबीसी आरक्षण को लेकर कहा की कांग्रेस के अदालत में याचिका दायर कर देने के बाद ओबीसी आरक्षण का मुद्दा लंबित हो गयाउन्होने बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहानसॉलिसिटर से मुलाकात कर यह प्रयास कर रहे हैं की सुप्रीम कोर्ट के आदेश में थोड़ा परिवर्तन हो जाये ताकि चुनाव ओबीसी आरक्षण के साथ ही लड़ा जायेलेकिन यदि ऐसा नहीं हुआ तो कोर्ट के आदेश का सम्मान करते हुये भारतीय जनता पार्टी पूरी ताकत से चुनाव लड़ेंगी|

Dakhal News

Dakhal News 14 May 2022


bhopal, Minister Rajput ,flagged off ,Jaisinagar-Barman bus service

भोपाल। राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने शुक्रवार को सागर के जैसीनगर से बरमान के लिये बस सेवा को झण्डी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने कहा कि सुरखी विधानसभा क्षेत्र के जैसीनगर की जनता के लिये माँ नर्मदा स्नान के लिये प्रतिदिन बस सेवा उपलब्ध कराई गई है।   राजपूत ने बताया कि यह बस प्रात: 8 बजे जैसीनगर से रवाना होगी। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की सेवाएँ सुरखी विधानसभा क्षेत्र के अनेक क्षेत्रों में भी प्रारंभ की जायेंगी।   लोक सेवा केन्द्र का किया लोकार्पण मंत्री राजपूत ने इस अवसर पर 4 लाख 50 हजार रुपये की लागत से बने लोक सेवा केंद्र का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि इस लोक सेवा केन्द्र के माध्यम से शासन की विभिन्न लोक कल्याणकारी योजनाओं एवं छात्र-छात्राओं को अनेक ऑनलाइन योजनाओं का लाभ मिल सकेगा। उन्होंने कहा कि इसी प्रकार किसान भाइयों के लिए भी खसरा बी-1 एवं अन्य प्रकार की जानकारी प्राप्त होगी। मंत्री राजपूत ने 20 लाख रुपये की लागत से बनने वाली पंचायत भवन का भी भूमि-पूजन किया है। उन्होंने कहा कि यह पंचायत भवन पूरी गुणवत्ता के साथ समय-सीमा में तैयार किया जाये, जिससे ग्राम पंचायत का काम समय-सीमा में सुचारू रूप से संचालित किया जा सके।

Dakhal News

Dakhal News 13 May 2022


bhopal, NSUI state president, accuses BJP , conspiracy

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में एनएसयूआई के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष आशुतोष चौकासे का एक दिन पूर्व वाट्सएप मैसेज वायरल हुआ था जिसमें लेन देन करते हुए जिला अध्यक्षों की नियुक्ति के बारे में बातचीत हुई थी। शुक्रवार को आशुतोष चौकसे ने कहा है कि फर्जी स्क्रीनशॉट और फर्जी ऑडियो रिकॉर्डिंग के आधार पर मुझे और संगठन को बदनाम करने की साजिश की जा रही है। एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष आशुतोष चौकासे ने पत्रकार वार्ता कर पूरे मामले पर सफाई दी है। उन्होंने कहा कि मुझे प्रदेश अध्यक्ष बने एक हफ्ता भी नहीं हुआ है और मुझे बदनाम करने की साजिश हो रही है। आशुतोष चौकसे ने बताया कि जो स्क्रीनशॉट है वो पूरी तरह से फर्जी बनाया हुआ है और जिन नंबरों से वायरल किया जा रहा हैं वो नंबर भी फर्जी है मैने साइबर सेल में शिकायत दर्ज करवाई है। साइबर सेल ने करवाई के लिए समय मांगा हैं, साइबर सेल जल्दी स्पष्ट करेगा कि किन लोगों द्वारा यहां फर्जी स्क्रीन शॉट और रिकॉर्डिंग वायरल की जा रही है और यह किन लोगों की साजिश है । चौकसे ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने एक मध्यम परिवार और ओबीसी समाज के छात्र नेता को प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी है जो कि भाजपा के नेताओं को रास नहीं आ रही हैं इसलिये वो मुझे और संगठन को बदनाम करने की साजिश से कर रहे हैं। आशुतोष ने बताया कि एनएसयूआई प्रदेश अध्यक्ष की नियुक्ति के तत्पश्चात ही एनएसयूआई के राष्ट्रीय सचिव और मध्यप्रदेश एनएसयूआई के प्रभारी नीतीश गौड़ ने पत्र जारी कर प्रदेश और जिलों भंग कर दी थी और प्रभारी महोदय ने स्पष्ट किया था कि जिला अध्यक्षों की नियुक्तिया सदस्यता अभियान के माध्यम से की जाएगी सदस्यता अभियान 17 मई से प्रारंभ किया जाएगा।

Dakhal News

Dakhal News 13 May 2022


bhopal, Health Minister ,inspected Ashta Civil Hospital

भोपाल। प्रदेश के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने शुक्रवार को सीहोर जिले के आष्टा सिविल अस्पताल का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि अस्पताल में पर्याप्त साफ-सफाई रहना चाहिये। अस्पताल में आने वाले मरीजों को नि:शुल्क जाँच, दवाई और उपचार की सभी सुविधाएँ समय पर उपलब्ध हो।   स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने सिविल अस्पताल आष्टा के विभिन्न वार्डों का निरीक्षण किया। वार्डों में भर्ती मरीजों से अस्पताल में मिल रही सुविधाओं की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने प्रसूताओं को समय पर एम्बुलेंस की उपलब्धता और गुणवत्तापूर्ण भोजन और अन्य पोषण-आहार की जानकारी प्राप्त की। अस्पताल में भर्ती मरीजों ने बताया कि उन्हें अस्पताल से नि:शुल्क और बेहतर उपचार मिल रहा है। चिकित्सक और स्टॉफ उनकी अच्छी देखभाल करते हैं।   ऑक्सीजन संयंत्र का लोकार्पण स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने सिविल अस्पताल में 150 एलपीएम क्षमता के ऑक्सीजन संयंत्र का लोकार्पण किया। ऑक्सीजन संयंत्र का निर्माण यूनीसेफ के सहयोग से किया गया है। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि ऑक्सीजन संयंत्र के शुरू होने से आष्टा अस्पताल में गंभीर रोगियों के लिये ऑक्सीजन आपूर्ति सुनिश्चित हो सकेगी।   उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में राज्य सरकार स्वास्थ्य सेवाओं को सुदृढ़ कर रही है। अस्पतालों में उपचार की सुविधाओं को विस्तार देते हुए आधुनिक चिकित्सा उपकरण और मशीनें उपलब्ध कराई जा रही हैं। जिला और सिविल अस्पतालों में सीटी स्केन मशीन, डिजिटल एक्स-रे मशीन आदि आधुनिक सुविधाएँ भी सुनिश्चित की जा रही हैं। लोकार्पण कार्यक्रम में आष्टा विधायक रघुनाथ मालवीय, स्थानीय जन-प्रतिनिधि और अधिकारी मौजूद थे।

Dakhal News

Dakhal News 13 May 2022


bhopal, Exhibition ,Innovations inaugurated , Startup Conclave

भोपाल। इंदौर के ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में शुरू हुए स्टार्टअप कॉन्क्लेव में स्टार्टअप एक्सपो में नई प्रवृतियों और नवाचारों की प्रदर्शनी का शुभारंभ शुक्रवार को सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा ने किया। इस मौके पर सांसद शंकर लालवानी, सचिव सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम पी. नरहरि, संचालक विशेष गढ़पाले भी उपस्थित थे।   प्रदर्शनी में नए स्टार्टअप द्वारा अपने इनोवेशन और उद्यम को प्रदर्शित किया गया हैं। मंत्री सखलेचा और अतिथियों ने प्रदर्शनी का अवलोकन कर स्टार्टअप्स से चर्चा की और उनकी पहल को सराहा। स्टार्टअप कॉन्क्लेव शुक्रवार सुबह उत्साह और उमंग के साथ शुरू हुआ, जिसमें विभिन्न सत्रों में चर्चाओं का दौर जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 13 May 2022


bhopal, Shivraj government, wants to suppress,Srinivas BV

भोपाल। मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस द्वारा राजधानी भोपाल में प्रदेश एवं केन्द्र में व्याप्त बेरोजगारी, मँहगाई, व्यापम घोटाला एवं भृष्टाचार को लेकर मप्र सरकार के खिलाफ हल्ला बोल ‘‘युवा शंखनाद’’ का आयोजन युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बी.वी. एवं प्रदेशाध्यक्ष डॉ. विक्रांत भूरिया के नेतृत्व में किया गया। वरिष्ठ कांग्रेसजनों नेताओं की उपस्थिति में कार्यक्रम में प्रदेश भर से हजारों की संख्या में युवा कांग्रेस के पदाधिकारी एवं कार्यकता शामिल थे। युवा शंखनाद कार्यक्रम में युवाओं को संबोधित करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि मध्यप्रदेश युवक कांग्रेस के आज के कार्यक्रम में आकर मुझे ना केवल खुशी मिली बल्कि बल और शक्ति भी मिली है, क्योंकि मैंने अपना राजनीतिक जीवन युवक कांग्रेस से ही शुरू किया था। जब मैं पहली बार संसद में पहुँचा था, वरिष्ठजनों का हमें मार्गदर्शन मिलता था, वह भी एक समय था। आज जो यह शंखनाद हो रहा है, यह केवल कांग्रेस की ही बात नहीं है, मध्य प्रदेश के भविष्य की बात है। हमें देश-प्रदेश के भविष्य की रक्षा करना है। उन्होंने कहा यही युवा देश और प्रदेश के भविष्य का नवनिर्माण करेंगे। यदि आज इनका ही भविष्य अंधकार में रहेगा तो मध्यप्रदेश का भविष्य क्या होगा?यही चुनौती हमारे आज सामने है। आज हमारे देश की संस्कृति पर आक्रमण हो रहा है। देश की और कांग्रेस की संस्कृति जोडऩे की संस्कृति रही है, हम दिल जोड़ते है, संबंध जोड़ते हैं, रिश्ता जोड़ते हैं। विश्व में कोई भी ऐसा देश नहीं है, जहाँ इतने धर्म, इतनी जातियाँ, इतनी भाषा, इतने रीति-रिवाज, इतने त्यौहार, इतने देवी देवता हो, उसके बाद भी आज हम सभी एक झंडे के नीचे खड़े है। आज हमारा देश इसी संस्कृति को अपनाकर एक झंडे के नीचे खड़ा है। पूर्व सीएम ने युवाओं से अपील करते हुए कहा कि यह जो लड़ाई है, संघर्ष है, यह देश के, प्रदेश के भविष्य के लिये है व आने वाली पीढिय़ों के भविष्य के लिये है। आज भाजपा के पास सिर्फ़ तीन चीजे बची है, पुलिस, पैसा और प्रशासन। याद रखियें जो हमारे कांग्रेस के युवा साथी है, वो ना इनकी पुलिस से दबेंगे, ना इनके पैसे से दबेंगे और ना इनके प्रशासन से दबेंगे। उन्होंने कहा कि हमें पूरा विश्वास है कि आप सभी ने ठान लिया तो मध्यप्रदेश की विधानसभा में 2023 में कांग्रेस के झंडे को लहराने से कोई नहीं रोक सकता है। युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री श्रीनिवास बी.वी. ने प्रदेश की भाजपा सरकार को ललकारते हुए कहा कि युवाओं में वो शक्ति है वो ताकत है कि आने वाले 2023 में आपकी कुर्सी को पलट कर रख देंगे। उन्होंने कहा आज युवा वर्ग परेशान हैं, शिक्षित युवा बेराजगार घूम रहा है। मध्यप्रदेश में शिवराज सरकार युवा कांग्रेस के संघर्षों से डरी हुई है, यही कारण है कि सरकार युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर द्वेषपूर्ण तरीके से प्रतिदिन नए झूठे मुकदमों में फँसाकर उनकी आवाज को बन्द करना चाहती है। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार आने पर ऐसे राजनीतिक विद्वेष के कारण दर्ज मुकद्मों को वापिस लिया जाएगा। युवा शंखनाद कार्यक्रम सभा के बाद युवा कांग्रेस के पदाधिकारियों ने प्रदेश में व्याप्त बेरोजगारी, व्यापम घोटाला, मँहगाई एवं भृष्टाचार के विरूद्व अपनी आवाज बुलन्द करने के लिए सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए व्यापम चौराहे से मुख्यमंत्री निवास का घेराव करने के लिए कूच किया। इस दौरान पुलिस बल ने युवा कांग्रेस के प्रदर्शनकारियों को छत्रपति शिवाजी चौराहे रोक लिया। पुलिस ने लाठी चार्ज के साथ ही वाटर केनन का प्रयोग किया। इस दौरान सैकड़ों पदाधिकारियों को चोटें आयीं। युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री श्रीनिवास बी.वी.जी, प्रदेशाध्यक्ष डॉ.विक्रांत भूरिया, राष्ट्रीय सचिव श्री शेषनारायण ओझा, विधायकद्वय पी.सी.शर्मा, कुणाल चौधरी सहित अनेक पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया।

Dakhal News

Dakhal News 12 May 2022


bhopal, Congress leaders , rave parties,Dr. Keswani

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता डॉ. दुर्गेश केसवानी ने कांग्रेस चीफ कमलनाथ के वचन पत्र वाले बयान का कड़ा विरोध जताया  है। भाजपा प्रवक्ता ने कहा है कि कांग्रेस चीफ को अब वचन शब्द का इस्तेमाल करने से पहले नैतिकता के नाते सोचना चाहिए। क्योंकि कांग्रेस चुनाव से पहले वचन पत्र नहीं असत्य पत्र का निर्माण करती है। लोगों के सामने इन्हें रखकर लोगों की आंखों में सदैव से धूल झोंकती आई है। लोगों को अंधेरे में रखने का काम कांग्रेस आज से नहीं आजादी के बात से ही करती आई है। हिंदू विरोधी कांग्रेस के लिए तो आम लोग और वचनों का कोई महत्व नहीं है। कांग्रेस नेता केवल और केवल निजी हितों के लिए ही सत्ता चाहते हैं। भाजपा प्रवक्ता ने कांग्रेस पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि कांग्रेस रीत सदा चली आई, वचन जाई पर सत्ता न जाई। चिंतन शिविरों में लजीज व्यंजनों का स्वाद चखते हैं कांग्रेस नेता : कांग्रेस पार्टी के चिंतन शिविरों को भाजपा प्रवक्ता ने लक्जरी होटलों में होने वाली रेव पार्टियां करार देते हुए कहा कि चिंतन शिविरों में 5 स्टार होटलों के एसी हॉल में बैठकर केवल लजीज व्यंजन चखने का काम करते हैं। इस दौरान कांग्रेस नेता एक जिम्मेदार विपक्ष की भूमिका भूल कर केवल भौतिक सुखों का लाभ उठाते हुए लजीज व्यंजनों के साथ पार्टियां करते हैं। जनसरोकार के मुद्दे पूरी तरह से दरकिनार कर दिए जाते हैं। इन शिविरों में कोई भी कांग्रेस नेता न तो अपनी कोई बात रख पाता है, यदि कोई जनसरोकार के बात रख भी देता है तो उसे सुनने वाला कोई नहीं होता। कांग्रेस ने वचन पत्र नहीं असत्य पत्र बनाया : डॉ. केसवानी ने कहा कि पहले के 973 कोरे झूठों के साथ नए झूठों को जोड़कर कांग्रेस एक नया असत्य पत्र आम लोगों के सामने पेश करेगी। इसे साल भर लोगों के सामने खूब प्रचारित और प्रसारित करेगी। अंत में फिर वही रेव पार्टियां और 5 स्टार पार्टियां ही बचेंगी। कांग्रेस पहले भी मध्य प्रदेश वासियों से 973 वचनों का वादा कर उन्हें ठग चुकी है। कोई मुझे बताए यदि उनमें से यदि एक भी वचन पूरा हुआ हो। 2018 में संवैधानिक रूप से लोगों ने कांग्रेस को चुना, इसके बाद कांग्रेस के मध्य प्रदेश चीफ कमलनाथ आइफा अवार्ड के नाम पर जैकलीन की कमर में हाथ डालते नजर आए। मध्य प्रदेश में गांजे की खेती को बढ़ावा देते नजर आए। वल्लभ भवन को दलालों का अड्डा बना दिया गया। वहीं जनहित के कार्य लेकर पहुंचने वाले विधायकों को चलो चलो बहुत हुआ कहकर भगाया गया। वहीं नेता नंबर 2 दिग्विजय सिंह अपनी आकांक्षाओं को पूरा न होते देख सरकार को ही गिराते नजर आए। लोगों के भरोसे को कांग्रेस हमेशा से ही तोड़ने का काम करती आई है। सत्ता मिलते ही कांग्रेस का एक मात्रकाम केवल और केवल रुपए जोड़ना होता है। लोगों को हंसाने का काम करते हैं राहुल :  डॉ. केसवानी ने कहा कि कांग्रेस के चरित्र को देश की पुरानी पीढ़ी के साथ नई पीढ़ी भी अच्छे से समझती है। वहीं राहुल गांधी को लेकर उन्होंने कहा कि राहुल को देखकर भाजपा न कभी चिंतित हुई है और न कभी होगी। राहुल केवल आम लोगों को हंसाने का काम करते आए हैं। इसलिए उनसे किसी तरह की परेशानी नहीं है। महंगाई और बेरोजगारी वाले मुद्दे पर भाजपा प्रवक्ता ने कहा है कि आज आम आदमी समझ रहा है कि भारत विकसित देश बनने की ओर अग्रसर है। इसलिए हमने प्रधानमंत्री मोदी को प्रथम जन सेवक चुना है। वहीं बेरोजगारी वाले मुद्दे पर उन्होंने कमलनाथ पर ही निशाना साधते हुए कहा है कि पहले नाथ बताएं उन्होंने अपनी सरकार में बेरोजगारी को लेकर क्या काम किया। यहां तक कि कमलनाथ ने बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता देने का वादा किया था, उन्होंने अपनी सरकार में कितने लोगों को बेरोजगारी भत्ता दिया।

Dakhal News

Dakhal News 12 May 2022


bhopal, Chief Minister Chouhan, planted Neem

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को राजधानी भोपाल के स्मार्ट सिटी उद्यान में नीम और बरगद के पौधे लगाए। इस दौरान द आर.के. हंगर एंड नीडी पर्सन वेलफेयर फाउंडेशन के राहुल कुमार, खुशबू राय, रूपक चौबे और राहुल शुक्ला भी पौध-रोपण में शामिल हुए।   बता दें कि फाउंडेशन जरूरतमंद लोगों की मदद करने के लिए सदैव तत्पर रहती है। कटारा हिल्स क्षेत्र में कस्तूरी रॉयल पार्क कॉलोनी में पर्यावरण-संरक्षण के लिए पौध-रोपण और स्वच्छता के क्षेत्र में भी कार्य किया जा रहा है। फाउंडेशन के सदस्यों का मानना है कि रहवासियों को गीला और सूखा कचरा अलग-अलग करने के लिए प्रेरित करने से स्वच्छता बनाए रखने में मदद मिलती है। इस दिशा में विशेष अभियान भी संचालित किए जाते हैं।   गौरतलब है कि बरगद को वट वृक्ष या बड़ भी कहा जाता है। इसका धार्मिक और आयुर्वेदिक महत्व है। एंटीबायोटिक तत्वों से भरपूर नीम को सर्वोच्च औषधि के रूप में जाना जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 12 May 2022


bhopal, Agriculture Minister ,Kamal Patel

भोपाल। विषैले रसायनिक उर्वरकों से मध्य प्रदेश की खेती किसानी को मुक्त करने की दिशा में मध्य सरकार ने जैविक खेती को प्रोत्साहन देने के लिए कारगर कदम उठाना शुरू कर दिए हैं। सूबे के कृषि मंत्री कमल पटेल ने बताया कि कृषि विज्ञान केंद्र, गोविंद नगर बनखेड़ी जिला नर्मदा नगर (होशंगाबाद) को मंडी बोर्ड से जैविक खेती के अनुसंधान एवं परीक्षण केंद्र की स्थापना के लिए दो करोड़ 38 लाख 44 हजार की अनुदान राशि स्वीकृत की है। कृषि मंत्री पटेल ने बताया कि मध्यप्रदेश सरकार जैविक खेती को प्रोत्साहित करने के लिए प्रतिबंध है। प्रधानमंत्री मोदी के आव्हान पर हम सबने इस दिशा में काम करना शुरू कर दिया है। इसी कड़ी में कृषि विज्ञान केंद्र बनखेड़ी में किसानों और छात्रों के लिए एक करोड़ 86 लाख 48 हजार रुपये जैविक रिसर्च लैब और जैविक मुद्रा परीक्षण प्रयोगशाला स्थापित करने के लिए 51 लाख 96 हजार रुपये मंडी बोर्ड से स्वीकृत किए गए हैं।   कृषि मंत्री कमल पटेल ने अपने एक बयान बताया कि रासायनिक उर्वरकों के अत्याधिक उपयोग से पंजाब जैसा राज्य कैंसर और कई गंभीर बीमारियों की चपेट में आ गया है। वहीं मध्यप्रदेश भी इससे अछूता नहीं है। मंडी बोर्ड के अध्यक्ष होने के नाते मैंने जैविक खेती को बढ़ावा देने की दिशा में यह पहली शुरुआत की है। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी चाहते हैं कि प्रदेश में प्राकृतिक और जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिए प्रभावी कदम उठाए जाए।

Dakhal News

Dakhal News 11 May 2022


bhopal, BJP government,Panchayat elections, Congress

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में बुधवार को पूर्व मंत्री एवं विधायक सज्जन वर्मा, पी सी शर्मा और कमलेश्वर पटेल ने संयुक्त पत्रकार वार्ता को संबोधित किया। इस दौरान कांग्रेस नेताओं ने भाजपा सरकार पर षड्यंत्र रचकर पंचायत चुनाव में ओबीसी आरक्षण खत्म करने का आरोप लगाया है। कांग्रेस ने राज्य सरकार से ओबोसी आरक्षण पर विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग करते हुए सदन में ओबीसी आरक्षण के लिए संविधान संशोधन का प्रस्ताव पारित कर केंद्र को भेजने की बात कही है। पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल ने आरोप लगाते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार मध्यप्रदेश में अन्य पिछड़ा वर्ग के आरक्षण को समाप्त करना चाहती है। शिवराज सिंह चौहान सरकार पहले ही नौकरियों और शिक्षा में कमलनाथ सरकार के समय दिए गए आरक्षण को अदालतों में कमजोर पैरवी करके धीरे-धीरे खत्म करती जा रही है, वही तरीका पंचायत चुनाव में अन्य पिछड़ा वर्ग के आरक्षण को समाप्त करने के लिए अपनाया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ओबीसी आरक्षण पर विधानसभा का विशेष सत्र बुलाए और सदन में ओबीसी आरक्षण के लिए संविधान संशोधन का प्रस्ताव पारित कर केंद्र को भेजे। कमलेश्वर पटेल ने कहा कि मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह चौहान सरकार ने इस विषय में लगातार माननीय उच्चतम न्यायालय में अन्य पिछड़ा वर्ग का पक्ष सही तरीके से नहीं रखा और जानबूझकर असंगत आंकड़े पेश करके ऐसी स्थिति उत्पन्न कर दी कि माननीय न्यायालय से इस तरह का फैसला आए। अब एक बार फिर से नया शिगूफा छोड़ते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्य प्रदेश सरकार उच्चतम न्यायालय में पुनर्विचार याचिका दाखिल करेगी। यह बहुत साफ है कि सरकार सिर्फ अपना दामन बचाने के लिए पुनर्विचार याचिका दाखिल करने का ढोंग कर रही है। पूर्व मंत्री ने कहा कि कांग्रेस पार्टी पुनर्विचार याचिका के दाखिल होने और उस पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने का इंतजार करेगी। कांग्रेस पार्टी अपनी तरफ से हर उस संभावना पर विचार कर रही है कि किस तरह ओबीसी वर्ग को पंचायत और निकाय चुनाव में 27 प्रतिशत आरक्षण दिया जा सके। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी को इस बात का अंदेशा है कि भाजपा और आरएसएस इसी तरह का षड्यंत्र रच कर आगे चलकर अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति का आरक्षण भी खत्म कर देंगे, साजिश रच सकते हैं। लेकिन कांग्रेस पार्टी बाबा साहब अंबेडकर द्वारा बनाए संविधान में देश के दलित आदिवासी और पिछड़ा वर्ग को दिए गए आरक्षण को बचाने के लिए हर स्तर पर संघर्ष करने के लिए तैयार है।

Dakhal News

Dakhal News 11 May 2022


bhopal, Bharat Talkies ROB ,Minister Sarang inspected

भोपाल। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने बुधवार को भोपाल शहर में भारत टॉकीज रेलवे ओवर ब्रिज का निरीक्षण किया। उन्होंने बताया कि भोपाल शहर में बस स्टेशन एवं पुराने शहर को रेलवे स्टेशन प्लेटफार्म क्रमांक-एक से जोड़ने वाले भारत टॉकीज रेलवे ओवर ब्रिज का निर्माण वर्ष 1974 में किया गया था। अब ब्रिज के विशेष मरम्मत कार्य से पुल लगभग 25 साल के लिये पुन: तैयार हो जायेगा। ब्रिज के मरम्मत कार्य पर लगभग ढ़ाई से तीन करोड़ का व्यय होगा।   मंत्री सारंग ने बताया कि ब्रिज के मरम्मत कार्य से थोड़े समय ट्रेफिक व्यवस्था में परिवर्तन किया जायेगा। जिला प्रशासन और ट्रेफिक पुलिस की प्लानिंग के अनुसार ट्रेफिक डायवर्ट करने सुव्यवस्थित प्लान तैयार किया जा रहा है, जिससे आवागमन सुगम रहे। उन्होंने बताया कि अशोका गार्डन की 80 फीट रोड और सुभाष नगर आरओबी से ट्रेफिक व्यवस्था दुरूस्त हुई है। बरखेड़ी के नज़दीक अंडरपास का अतिक्रमण हटने से भी आवागमन सुविधाजनक होगा।   ब्रिज के नीचे बने गोडाउन खाली कराने के निर्देश मंत्री सारंग ने भारत टॉकीज आरओबी के नीचे बने गो-डाउन को खाली कराने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि 2 दिन के अंदर अतिक्रमण किये गये एरिये को मुक्त करवाया जाये।   ज्ञात हो कि पुल अधिक पुराना होने के कारण पुल के बियरिंग एवं पेडस्टल क्षतिग्रस्त हो गये हैं तथा राइडिंग की स्थिति भी खराब है। स्थिति को देखते हुए पुल के सभी बियरिंग एवं पेडस्टल का कार्य किया जायेगा। साथ ही राइडिंग सरफेस को ठीक करने के लिये वर्तमान सरफेस को डिस्मेंटल कर नया सरफेस मास्टीक एसफाल्ट से किया जायेगा। एस्पान्सन ज्वाइंट का रख-रखाव भी किया जायेगा। इसके अतिरिक्त फुटपाथ पर लगे पेविंग ब्लाक हटाकर नया सरफेस बनाया जाना प्रस्तावित है। इस कार्य के लिये कार्यादेश जारी किया गया है। कार्य को पूर्ण करने के लिये 8 माह का समय निर्धारित किया गया है।   वैक्सीनेशन केम्प में बच्चों को किया प्रोत्साहित निरीक्षण के दौरान मंत्री सारंग ने शंकराचार्य नगर स्थित जी.बी. कॉन्वेंट हा.से. स्कूल में चल रहे वैक्सीनेशन केम्प में पहुँचे और बच्चों को प्रोत्साहित किया। स्कूल में 12 वर्ष से अधिक आयु वाले बच्चों को वैक्सीन लगाई जा रही है। मंत्री सारंग ने बच्चों से कहा कि वे अपने साथियों को भी वैक्सीनेशन के लिये मोटिवेट करें।

Dakhal News

Dakhal News 11 May 2022


bhopal, Minister Sarang ,inspected, transfer arrangements

भोपाल। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने सोमवार को राजधानी भोपाल में हमीदिया अस्पताल के नव-निर्मित भवन में सुल्तानिया अस्पताल के स्थानांतरण की व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। उन्होंने पीडियाट्रिक विभाग के सभी वार्डों में व्यवस्थाओं को देखा और कमियों को इंगित करते हुए नाराजगी व्यक्त की।   मंत्री सारंग ने कहा कि एक ही स्थान पर उपचार व्यवस्था होने से भोपाल की जनता को बड़ी सहूलियत होगी। अभी तक पीडियाट्रिक एवं मेटरनिटी वार्ड के बीच लगभग 4 से 5 किलोमीटर की दूरी थी। अब हमीदिया के नये भवन में मेटरनिटी वार्ड को भी स्थानांतरित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मेटरनिटी वार्ड को हमीदिया में स्थानांतरित करने के साथ ही बिस्तरों में भी बढ़ोत्तरी की जा रही है। उन्होंने कहा कि अभी मेटरनिटी वार्ड में 200 बिस्तर हैं, जिनमें वृद्धि कर 300 बिस्तर किये जा रहे हैं।   अस्पताल में एचआईएमएस सिस्टम शुरू करने दिये निर्देश चिकित्सा शिक्षा मंत्री सारंग ने कहा कि नवजात शिशुओं को भी नये भवन के पीडियाट्रिक विभाग में जल्द से जल्द इलाज मिल सकेगा। सुनिश्चित किया जा रहा है कि पूरा अस्पताल अब एचआईएमएस सिस्टम से संचालित हो। सभी व्यव्स्थाओं को कंप्यूटरीकृत किया जा रहा है, जिसमें पंजीकरण का पर्चा बनने से लेकर दवा वितरण और डॉक्टरों की विजिट को भी कम्प्यूटर में दर्ज किया जायेगा। उन्होंने बच्चों के इलाज के साथ ही उनकी मेडिकल हिस्ट्री को कंप्यूटरीकृत करने के लिये 15 दिनों में एचआईएमएस सिस्टम शुरू करने के निर्देश दिये।   स्थानांतरित वार्ड पर लगेगी चेक-लिस्ट मंत्री सारंग ने पीडियाट्रिक विभाग के विभिन्न वार्डों का निरीक्षण कर कार्य को गति देने के लिये पीआईयू के अधिकारियों को सर्वे कर चेक-लिस्ट तैयार करने के निर्देश दिये। चेक-लिस्ट में शेष बचे कार्य एवं जिम्मेदार व्यक्ति का विवरण दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि 15 दिनों के बाद वे पुन: समीक्षा करेंगे। कांट्रेक्टर और पीआईयू से हेण्ड-ओवर टेक-ओवर के पहले सारी व्यवस्थाएँ चेक करवाने के निर्देश भी दिये।   वेटिंग एरिया में कुर्सी और वाटर कूलर लगाने के निर्देश सारंग ने कहा कि वेटिंग एरिया में कुर्सी और वाटर कूलर की भी व्यवस्था हो। उन्होंने कहा कि नये भवन में मरीजों और उनके अटेंडर्स की सुविधा के लिये साइनेज का उपयोग किया जाये। उन्होंने नये भवन में लगे साउंड सिस्टम को भी चेक करवाया। उन्होंने फर्नीचर कार्य को एक माह में पूर्ण करने के निर्देश दिये।   पेशेंट हेल्प डेस्क को भी कंप्यूटरीकृत करने के निर्देश मंत्री सारंग ने हमीदिया के नये भवन में पेशेंट हेल्प डेस्क का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने उपचार के लिये आने वाले बच्चों के रिकॉर्ड को कंप्यूटरीकृत करने के निर्देश दिये।   बच्चों के पालकों से की बात सारंग ने हमीदिया अस्पताल के नये भवन में बने प्ले-थैरेपी रूम एवं एसएनसीयू वार्ड में बच्चों के उपचार के लिये आये पालकों से बातचीत की और बच्चों का हालचाल जाना। उन्होंने अस्पताल में डॉक्टर्स द्वारा दी जा रही सेवा के बारे में जानकारी ली, जिस पर पालकों ने संतुष्टि जाहिर की।   एसएनसीयू वार्ड में धूल को लेकर सुपरवाइज़र को लगाई फटकार मंत्री सारंग ने हमीदिया अस्पताल के एसएनसीयू वार्ड का निरीक्षण करते हुए धूल को लेकर सुपरवाइज़र को फटकार लगाई। उन्होंने सफाई व्यवस्था में लापरवाही को लेकर कंपनी पर जुर्माना लगाने के भी निर्देश दिये।   निरीक्षण के दौरान भोपाल संभागायुक्त गुलशन बामरा, गांधी मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. अरविंद राय, पीडियाट्रिक विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ. ज्योत्सना श्रीवास्तव सहित पीआईयू के अधिकारी उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 9 May 2022


bhopal, Congress targeted , government

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस मीडिया उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने कहा है कि पूरा मध्य प्रदेश जब बिजली कटौती से हाहाकार कर रहा है। चारों तरफ 45 डिग्री की तपिश में लोग किसी तरह पंखा झल कर जिंदगी काट रहे हैं। तब भाजपा के छुटभैय्ये नेता से लेकर मंत्री तक कह रहे हैं कि कोई कटौती नहीं हो रही है। भरपूर बिजली है। कांग्रेस नेता ने भाजपा नेताओं के झूठा करार देते हुए कहा कि अखबार छाप रहे हैं कि बिजली कटौती के कारण अंधेरे में दुल्हनें बदल गईं और बिजली वापस आने पर फिर से फेरे लेने पड़े। लेकिन सरकार अड़ी है कि कोई बिजली नहीं जा रही। कोई लोकलाज नहीं। भूपेन्द्र गुप्ता ने सोमवार को एक बयान जारी कर सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि अब तो बिजली कटौती के खिलाफ बिजली विभाग के कर्मचारी भी सरकार को चि_ी लिखकर सुरक्षा की मांग कर रहे हैं। फिर भी सरकार और भाजपा के छुटभैय्ये नेता तक बिजली कटौती से इंकार कर रहे हैं। भुक्तभोगी जनता इस बेशर्मी से अपना सर धुन रही है। गुप्ता ने बिजली कर्मचारियों द्वारा सुरक्षा मांगे जाने की चि_ी जारी करते हुए कहा कि सरकार के ढीठपने का यह खुला प्रमाण है।   कांग्रेस नेता ने सरकार से मांग की है कि तत्काल बिजली की 10 घंटे आपूर्ति बहाल की जाए। हम दो हमारे दो को लाभ पहुंचाने के लिए जो शासकीय पावर प्लांट बंद रखे गए हैं, उन्हें तत्काल चालू किया जाए। सारणी, चचाई और बीरसिंहपुर में कोयले की कमी ना होने के बावजूद जानबूझकर बिजली प्लांट क्यों बंद है? सरकार को यह बताना चाहिए। एक तरफ बिजली की मारामारी है तो दूसरी तरफ सरकार ने 1000 मेगावाट बिजली सरेंडर क्यों की है? जनता को सताने के पीछे सरकार की क्या मंशा है।

Dakhal News

Dakhal News 9 May 2022


bhopal, Startup Policy ,Big step towards ,self-reliant

इंदौर। सुक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा ने कहा कि आगामी 13 मई को इंदौर में स्टार्टअप की नई पॉलिसी लांच की जायेगी। यह पॉलिसी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी वर्चुअल कार्यक्रम के माध्यम से लांच करेंगे। इस अवसर पर इंदौर में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान विशेष रूप से मौजूद रहेंगे। सकलेचा ने कहा कि स्टार्टअप की नई पॉलिसी आत्मनिर्भर भारत तथा आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश की दिशा में बड़ा कदम साबित होगी। इस पॉलिसी में स्टार्टअप को आगे बढ़ाने के लिये अनेक प्रावधान किये गये हैं। यह पॉलिसी स्टार्टअप के प्रतिनिधियों के सुझावों के आधार पर तैयार की गई है। उक्त बातें मंत्री सकलेचा ने सोमवार को ब्रिलियंट कन्वेशन सेंटर में आयोजित स्टार्टअप के कर्टन रेजर कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही।   मंत्री सकलेचा ने कहा कि स्टार्टअप को आगे बढ़ाने के लिये अनुकूल वातावरण उपलब्ध कराया जा रहा है। प्रधानमंत्री मोदी के आव्हान पर मुख्यमंत्री चौहान का सपना है कि हम स्टार्टअप में भी देश में अव्वल रहे। इंदौर में बड़ी संख्या में निवेशक हैं। यहां स्टार्टअप और इसमे निवेश की अपार संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि स्टार्टअप को आगे बढ़ाने के लिये सभी आवश्यक संसाधन उपलब्ध है। यहां सभी तरह की क्षमता एवं संसाधन है। जोखिम लेने की ताकत भी है। जरूरत बस इन्हें अवसर देने एवं शुरुआत करने की है। स्टार्टअप पॉलिसी एक नई शुरुआत है। उन्होंने कहा कि स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिये लक्ष्य आधारित प्रयास किये जाए। लक्ष्य आधारित प्रयासों से सफलता जरूर मिलती है। उन्होंने आश्वस्त किया कि सरकार अनुकूल वातावरण, सुविधाएं और संसाधन देने में कोई कोर कसर नहीं रखेगी। सभी तरह की मदद दी जायेगी।   सांसद शंकर लालवानी ने कहा कि स्टार्टअप के क्षेत्र में प्रधानमंत्री मोदी के संकल्पों को साकार रूप देने के लिये इंदौर में पुरजोर प्रयास किये जा रहे है। हमने गत 26 जनवरी को मुख्यमंत्री चौहान की विशेष उपस्थिति में स्टार्टअप कार्यक्रम कर संकल्पों को साकार करने की शुरुआत की थी। अल्प समय में ही स्टार्टअप के सुझावों को आधार बनाकर नई स्टार्टअप पॉलिसी तैयार की गई है। पॉलिसी को अमली रूप देने के प्रयास भी शुरू कर दिये गये हैं। स्टार्टअप में हम अग्रणी भूमिका निभाने में आगे बढ़ रहे हैं। फण्डिंग की दिशा में भी तेजी से कार्य किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इंदौर को स्टार्टअप हब बनाने के प्रयास किये जा रहे हैं।   सुक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम आयुक्त पी.नरहरि ने कहा है कि इंदौर के लिये आज का दिन बहुत ही महत्वपूर्ण दिन है। इंदौर में ही गत 26 जनवरी को स्टार्टअप से मुख्यमंत्री चौहान ने संवाद किया था। इसके पश्चात स्टार्टअप को स्थापित करने के लिये तेजी से काम शुरू किये गये। इको सिस्टम डेवलप किया जा रहा है। नई स्टार्टअप पॉलिसी बनाई गई है। पॉलिसी के प्रावधानों को अमले रूप देने के लिये तेज गति से कार्य किये जा रहे हैं। इंदौर में इको सिस्टम डेवलप हो रहा है। इसे और अधिक गति देना है। इंदौर को देश का स्टार्टअप केपिटल बनाया जायेगा।   कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा है कि इंदौर में 26 जनवरी को मुख्यमंत्री चौहान की उपस्थिति में पहला कार्यक्रम हुआ था। इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में स्टार्टअप के प्रतिनिधि मौजूद थे। इसके बाद उनके सुझावों के आधार पर अल्प समय में राज्य शासन द्वारा नीति तैयार की गयी है। उनकी जरूरतों एवं मांग का आंकलन किया गया। इसके आधार पर उन्हें हर तरह की मदद एवं सुविधाएं देने का निर्णय लिया गया है। नयी पॉलिसी से स्टार्टअप को बड़ी मदद मिलेगी। उन्होंने बताया कि 13 मई को होने वाला कार्यक्रम स्टार्टअप के लिये बड़ा अवसर है।   डॉ. निशांत खरे ने कहा है कि स्टार्टअप को आगे बढ़ाने की दिशा में राज्य शासन द्वारा कारगर प्रयास किये जा रहे हैं। परिणाममूलक प्रयास हो रहे हैं। स्टार्टअप को स्थापित करने के लिये अनेक महत्वपूर्ण निर्णय लेकर उन्हें कार्य रूप में अमल में लाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार का प्रयास है कि जो नए स्टार्टअप लगे हैं वह आगे बढ़े और जो आगे बढ़ गए हैं वह स्थापित हो। इसके लिये स्थानीय स्तर पर इको सिस्टम डेवलेप किया जा रहा है। स्टार्टअप को निवेश उपलब्ध कराने की दिशा में भी निरंतर प्रयास हो रहे हैं। उन्होंने बताया कि एकानॉमिक कॉरिडोर पर 22 एकड़ का स्टार्टअप हब बनाया जायेगा। स्टार्टअप को हर संभव मदद दी जायेगी। उन्हें तकनीकी, वित्तीय तथा मार्केटिंग की सुविधा उपलब्ध कराई जायेगी। हर क्षेत्र में स्टार्टअप डेवलप किये जायेंगे।   कार्यक्रम के दौरान स्टार्टअप के संचालकों तथा निवेशकों के मध्य समन्वय स्थापित कराया गया। स्टार्टअप से चर्चा के दौरान अनेक निवेशकों ने निवेश करने की रूचि प्रदर्शित की। कार्यक्रम में मुख्य रूप से 9 स्टार्टअप कंपनियों में निवेश के लिये 28 निवेशकों ने अपनी रूचि जाहिर की। कार्यक्रम में 9 स्टार्टअप के प्रतिनिधियों ने अपने इनोवेशन, इनोवेटिव की जानकारी दी।

Dakhal News

Dakhal News 9 May 2022


bhopal, Micro plans,5 thousand, forest committees ,Forest Minister

भोपाल। वन मंत्री डॉ. कुँवर विजय शाह ने कहा कि प्रदेश के वनों के सुधार और प्रबंधन में वन समितियाँ विशेष भूमिका निभा रही हैं। इस वर्ष के अंत तक 5 हजार वन समितियों के माइक्रो प्लान तैयार कर लिये जाएंगे।   वन मंत्री डॉ. शाह ने शनिवार को बताया कि प्रदेश में 847 ग्राम समुदाय ऐसे हैं, जहाँ वनों में सुधार किया गया है। इसके अलावा 390 ग्रामों में 1.15 लाख हेक्टेयर बिगडे़ वन क्षेत्र का पूर्ण रूप से सुधार किया जा चुका है। पिछले एक दशक में प्रदेश के 1152 ग्रामों में 4 लाख 31 हजार हेक्टेयर वन क्षेत्र में सुधार किया गया।   बांस के मामले में प्रदेश हुआ समृद्ध बांस के मामले में प्रदेश समृद्ध हुआ है। यहाँ 18 हजार 394 वर्ग किलोमीटर में बांस उपलब्ध है, जो देश में सर्वाधिक है। इसमें हरे डंठल का बांस 3108 मिलियन और सूखे डंठल वाला बांस 1005 मिलियन है। ट्री कवर में प्रदेश तीसरे स्थान पर प्रदेश का भौगोलिक क्षेत्रफल 3 लाख 8 हजार 292 वर्ग किलोमीटर है। इसमें से ट्री कवर 8054 वर्ग किलोमीटर है, जो भौगोलिक क्षेत्रफल का 2.61 फीसदी है। इस तरह ट्री कवर की दृष्टि से देश के प्रथम पाँच राज्यों में मध्यप्रदेश तीसरे स्थान पर काबिज है।   वन क्षेत्र में प्रदेश अन्य राज्यों से है आगे भारतीय वन सर्वेक्षण की 2021 की जारी रिपोर्ट के अनुसार वन क्षेत्र में प्रदेश अन्य राज्यों से आगे है। अति सघन वन क्षेत्र 6645 वर्ग किलोमीटर, मध्यम सघन वन 34 हजार 209 वर्ग किलोमीटर और खुला वन क्षेत्र 36 हजार 619 वर्ग किलोमीटर है।

Dakhal News

Dakhal News 7 May 2022


bhopal, Youth , self-dependent , Sakhlecha

भोपाल। प्रदेश के सूक्ष्म, लघु मध्यम उद्यम तथा विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा ने शनिवार को नीमच के नयागाँव में नगर पंचायत के 9 कार्यों का लोकार्पण एवं भूमि-पूजन किया। इस अवसर पर उन्होंने केंद्र और राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं के बारे में बताया और अधिकारियों को शासन की योजनाओं को घर-घर तक पहुँचाने के निर्देश भी दिए। उन्होंने बताया कि इस वर्ष में अब तक आयोजित हुए रोजगार मेलों के माध्यम से 13.50 लाख लोगों को रोजगार के अवसर प्रदान किए गए हैं।   मंत्री सखलेचा ने मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना के बारे में बताया कि 12वीं पास युवा 1 लाख से 50 लाख तक की राशि के ऋण प्राप्त कर सकेंगे। इसके लिये युवाओं को ऋण लेने के लिए किसी बैंक अथवा कार्यालय में जाने की जरूरत नहीं होगी। इसके लिये ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे। ऑनलाइन ही ऋण स्वीकृति व वितरण हो सकेगा।   सखलेचा ने युवाओं से आहवान किया कि क्षेत्र के युवा सीमेंट ब्रिक्स पेवर ब्लॉक निर्माण की यूनिट स्थापित कर स्वयं रोजगार स्थापित कर आत्म-निर्भर बनें। मंत्री ने नयागाँव के विभिन्न वार्ड में सीसी रोड, नाली निर्माण और तालाब गहरी करण जैसे विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण और भूमि-पूजन भी किया।

Dakhal News

Dakhal News 7 May 2022


indore, Every effort ,schools convenient, resource-rich, Minister Silavat

  इंदौर। प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने शनिवार को यहां सांवेर विधानसभा क्षेत्र के स्कूलों तथा आंगनबाड़ियों की व्यवस्थाओं को और अधिक सुदृढ़ बनाने, सुविधाओं के विस्तार तथा दैनंदिनी समस्याओं के निराकरण के संबंध में संबंधित विभागों के अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में जिला पंचायत सीईओ वंदना शर्मा, एसडीएम रवीश श्रीवास्तव, प्रतुल चंद्र सिन्हा तथा शाश्वत शर्मा सहित सभी स्कूलों के प्राचार्य शिक्षा विभाग के अधिकारी तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारी मौजूद थे।   बैठक में मंत्री सिलावट ने स्कूलवार उपलब्ध सुविधाओं और संसाधनों की समीक्षा की और कहा कि सभी स्कूल सुविधाएं और संसाधन संपन्न बने यह हमारा प्रयास है। स्कूलों को सुविधायुक्त और संसाधन संपन्न बनाने के लिए किसी भी तरह की कोर कसर नहीं रखी जाएगी। स्कूलों के परिसर के अतिक्रमण शीघ्र हटाने के निर्देश उन्होंने दिए। उन्होंने कहा कि जहां पर फर्नीचर नहीं है, उनकी सूची दी जाए जिससे की तुरंत फर्नीचर उपलब्ध कराया जा सके। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि सभी स्कूलों में बालक-बालिकाओं के लिए पृथक-पृथक शौचालय हो और पीने के पानी की पर्याप्त व्यवस्था रहे।     सिलावट में कहा कि स्कूलों में शिक्षा के गुणात्मक सुधार पर विशेष ध्यान दिया जाए। नई शिक्षा नीति के अनुरूप शिक्षण की व्यवस्था सभी विद्यालयों में की जाए। बच्चों को पारिवारिक वातावरण उपलब्ध कराएं। शिक्षा के विकास एवं प्रगति में बाधक सभी कठिनाइयों को दूर किया जाएगा। हम आपको सुविधाएं मुहैया कराएंगे, आप हमें बेहतर से बेहतर रिजल्ट देवें। उन्होंने कहा कि समीक्षा के लिए अब हर तीन माह में बैठकें होंगी। सिलावट ने शिक्षक पालक संघ की नियमित बैठक आयोजित करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि सभी स्कूलों में बच्चों के कैरियर काउंसलिंग की व्यवस्था भी की जाए। बच्चों को खेल की सुविधाएं भी मुहैया कराएं। जिन स्कूलों में स्टेडियम नहीं है, वहां स्टेडियम बनाने की व्यवस्था भी की जाए।

Dakhal News

Dakhal News 7 May 2022


bhopal, BJP declared ,district convener , cooperative cell

  भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा की सहमति से सहकारिता प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक मदनलाल राठौर ने प्रकोष्ठ के जिला संयोजकों के नामों की घोषणा की है। पार्टी द्वारा घोषित नए जिला संयोजकों में वीर सिंह यादव को दतिया, जितेन्द्र सिंह रावत को ग्वालियर ग्रामीण, वी. के. गुप्ता शिवपुरी, बारेलाल धाकड़ गुना, वीरेन्द्र पाठक सागर, राजेश नायक टीकमगढ, विजय सिंह यादव निवाड़ी, विजय शंकर शुक्ल सीधी, रविन्द्र चौबे सिंगरौली, राकेश मिश्रा शहडोल, सुरेश गौतम अनूपपुर, हरिओम शर्मा जबलपुर नगर, शरद जैन (मंझोली) जबलपुर ग्रामीण, छेदीलाल पाण्डेय कटनी, रामलाल रजक डिण्डोरी, संतोष रजक मण्डला, पुष्पेन्द्र देशमुख बालाघाट, कमलेश कौरव नरसिंहपुर, राधेश्याम डून्डी हरदा, जीवन मैथिल भोपाल ग्रामीण, एलम सिंह दांगी सीहोर, राकेश कुशवाह इंदौर नगर, प्रेमलाल पटेल खण्डवा, राजेश जयसवाल खरगौन,गोविद तिवारी बड़वानी,राजेन्द्र सिंह ठाकुर अलीराजपुर, औच्छब जैन झाबुआ, हेमराज सिंह शाजापुर, राधेश्याम जाट देवास, सुरेन्द्र सिंह सोलंकी रतलाम, सज्जन शर्मा को नीमच का जिला अध्यक्ष मनोनीत किया गया है।

Dakhal News

Dakhal News 6 May 2022


bhopal, Governor and Chief Minister ,Union Minister Arjun Munda

भोपाल। केन्द्रीय जनजातीय कार्य मंत्री अर्जुन मुंडा ने शुक्रवार को भोपाल प्रवास के दौरान राजभवन पहुंचकर राज्यपाल मंगुभाई पटेल से सौजन्य भेंट की। उन्होंने राज्यपाल पटेल से जनजातीय विकास के विभन्न विषयों पर चर्चा की।   इसके बाद केन्द्रीय जनजातीय कार्य मंत्री अर्जुन मुंडा मुख्यमंत्री निवास पहुंचे और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से सौजन्य भेंट की। भेंट के दौरान जनजातीय विकास के विभिन्न विषयों पर चर्चा भी हुई।

Dakhal News

Dakhal News 6 May 2022


bhopal, Chief Minister Chouhan, paid homage

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को जगतगुरू शंकराचार्य जी के प्रकटोत्सव पर उन्हें नमन किया। मुख्यमंत्री चौहान ने अपने निवास कार्यालय स्थित सभागार में आचार्य शंकर के चित्र पर माल्यार्पण कर पुष्पांजलि अर्पित की।   आदि शंकराचार्य का जन्म केरल के 'कालडी़ ग्राम' में हुआ था। वे अद्वैत वेदान्त के प्रणेता, संस्कृत के विद्वान, उपनिषद व्याख्याता और धर्म प्रचारक थे। उन्होंने लगभग पूरे भारत की यात्रा की। उनके जीवन का अधिकांश भाग उत्तर भारत में बीता। आदिशंकराचार्य ने भारत के दक्षिण में रामेश्वरम् में श्रृंगेरी शारदा पीठ, उड़ीसा के पुरी में गोवर्धन मठ, गुजरात के द्वारका में शारदा मठ और उत्तराखण्ड के बद्रिकाश्रम में ज्योतिर्मठ की स्थापना की। शंकराचार्य जी का संसार के उच्चतम दार्शनिकों में महत्वपूर्ण स्थान है।   मुख्यमंत्री चौहान ने प्रकटोत्सव पर अपने शुभकामना संदेश में कहा है कि "आचार्य शंकर ने मध्यप्रदेश से ही अद्वैत सिद्धांत का प्रतिपादन किया और भारतवर्ष का भ्रमण कर पूरे राष्ट्र को आलोकित किया।" उनके प्रयासों से ही वेदों और उपनिषदों की वाणी पूरे भारत में पुनः गूँजी। समाज में नए जीवन का संचार हुआ तथा मध्यप्रदेश में एक अभिनव युग का सूत्रपात हुआ। उत्तर से दक्षिण और पूर्व से पश्चिम तक उनकी सांस्कृतिक एकता यात्रा का मध्य बिंदु स्वाभाविक रूप से मध्यप्रदेश रहा है। मध्यप्रदेश सरकार ने खंडवा जिले में ओंकारेश्वर में नर्मदा तट पर आचार्य शंकर अंतरराष्ट्रीय अद्वैत वेदांत संस्थान की स्थापना का निर्णय लिया है। जहां आदि शंकराचार्य जी की 108 फीट ऊँची बहु धातु की भव्य प्रतिमा स्थापित की जाएगी। यह प्रकल्प आचार्य शंकर के संपूर्ण जीवन-दर्शन से परिचित कराते हुए, भावी पीढ़ी के चरित्र-निर्माण, पर्यावरण-संरक्षण, सामाजिक-सांस्कृतिक परिवर्तन, विश्व-कल्याण और वसुधैव कुटुंबकम के एक वैश्विक केंद्र के रूप में उभरेगा।

Dakhal News

Dakhal News 6 May 2022


bhopal, Chief Minister Chouhan, planted saplings

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरूवार को हैदराबाद प्रवास के दौरान नीम का पौधा लगाया। इस मौके पर मुख्यमंत्री चौहान के साथ उनकी धर्मपत्नी साधना सिंह ने भी पौध-रोपण किया।   मुख्यमंत्री चौहान ने नागरिकों से अपने जन्म-दिवस, परिजन के जन्म-दिवस और विवाह वर्षगाँठ के अवसर पर एक पौधा लगाने का आग्रह किया है। मुख्यमंत्री चौहान ने आज अपनी विवाह वर्षगाँठ के अवसर पर सपत्नीक पौध-रोपण किया। उन्होंने बीते सवा वर्ष से निरंतर चले आ रहे पौध-रोपण के नियम को कायम रखा है। मुख्यमंत्री चौहान नई दिल्ली, मुम्बई या किसी भी राज्य के भ्रमण के दौरान भी प्रतिदिन पौधा लगाते हैं।

Dakhal News

Dakhal News 5 May 2022


bhopal, Energy Minister rewarded,engineers

  भोपाल । मध्यप्रदेश की समस्त विद्युत कंपनियों के अभियंताओं और कार्मिकों के ‘आत्म-निरीक्षण’ पर केन्द्रित तीन दिवसीय ‘मंथन-2022’ में ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने गुरूवार को जबलपुर में पावर जनरेटिंग कंपनी, पावर ट्रांसमिशन कंपनी और तीनों विद्युत वितरण कंपनियों के उत्कृष्ट कार्य करने वाले 42 अभियंताओं एवं तकनीकी कर्मियों को पुरस्कृत किया।   इस मौके पर प्रमुख सचिव ऊर्जा संजय दुबे, मध्यप्रदेश पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक अनय द्विवेदी, मध्यप्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी के मनजीत सिंह, मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी के प्रबंध संचालक सुनील तिवारी एवं समस्त विद्युत कंपनियों के चुनिंदा अभियंता और तकनीकी कार्मिक उपस्थित थे।     ऊर्जा मंत्री तोमर ने कार्यपालन अभियंता अनिल कुमार सिंह, सहायक अभियंता चंदन कुमार, अजय कुमार करवरिया, रामराज पटैल और रीकेश कुबड़े, कनिष्ट अभियंता गोलू धुर्वे, संयंत्र सहायक विशाल मालवीय और राजेन्द्र बुनकर (सभी जनरेटिंग कंपनी) पुरस्कृत किया। उन्होंने कार्यपालन अभियंता राजेश्वर ठाकुर, राजेन्द्र सिंह राठौर, सुनील यादव, लेखाधिकारी प्रशांत कुमार दत्त, विधि अधिकारी सियाराम शर्मा, कनिष्ठ अभियंता आरिफ अहमद खान और लाइन सहायक रामदास राय (सभी ट्रांसमिशन कंपनी) को पुरस्कृत किया। कार्यपालन अभियंता सुभाष राय, हिमांशु अग्रवाल, खुशियाल शशिवंशी, सहायक अभियंता वरूण सारस्वत, हुकुम चंद यादव, दिनकर दुबे, नितीश प्रजापति और कनिष्ठ अभियंता अर्जुन सिंह (सभी पूर्व क्षेत्र कंपनी)। सहायक अभियंता शिवानी अग्रवाल, मुकेश जाटव, निरंजन सनोडिया, कनिष्ठ अभियंता चंद्रशेखर, साधना कोवर्ती, रंजीत भदौरिया, आदित्य सिंह यादव, तकनीकी कर्मी दिवेश गौतम, नारायण सिंह धाकड़ और कुबेर सिंह सोलंकी (सभी मध्य क्षेत्र कंपनी) तथा अधीक्षण अभियंता अनिल नेगी, डीएन शर्मा, संजय मालवीय, कार्यपालन अभियंता विनय प्रताप सिंह, सहायक अभियंता रवि मालवीय, आशीष कुमार तिवारी, नवीन गुप्ता, कनिष्ठ अभियंता रवि वर्मा, आनंद कुरवंशी और मैनेजर आईटी विभोर पाटीदार (सभी पश्चिम क्षेत्र) को पुरस्कृत किया।

Dakhal News

Dakhal News 5 May 2022


bhopal, Digvijay Singh ,senior leaders , Gwalior-Chambal

भोपाल। मध्य प्रदेश में आगामी वर्ष होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर कांग्रेस ने तैयारी शुरू कर दी है। चुनाव में जीत हासिल करने के लिए और बूथ स्तर तक पार्टी को मजबूत करने के लिए कांग्रेस नेताओं की बैठकों का दौर भी शुरू हो गया है। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को भी पार्टी अहम जिम्मेदारी सौंप रही है। इसी क्रम में मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्देश पर वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह जी (संसद सदस्य) शनिवार, 7 मई को सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक ग्वालियर-चंबल संभाग के कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं से चर्चा करेंगे। ग्वालियर में होने वाली इस चर्चा बैठक में ग्वालियर-चंबल संभाग के सभी जिलों के कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं को आमंत्रित किया गया है। प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष एवं संगठन प्रभारी चंद्रप्रभाष शेखर ने ग्वालियर-चंबल संभाग के सभी वरिष्ठ आमन्त्रित नेताओं को इस चर्चा बैठक में भाग लेने का आग्रह किया।

Dakhal News

Dakhal News 5 May 2022


bhopal, Chief Minister Chouhan ,pays tribute

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को महाराजा छत्रसाल की जयंती पर उन्हें नमन किया और अपने निवास कार्यालय स्थित सभागार में उनके चित्र पर माल्यार्पण कर पुष्पांजलि अर्पित की।   मुख्यमंत्री चौहान ने ट्वीट करते हुए कहा कि "बुंदेलखंड केसरी, महान योद्धा, महाराजा छत्रसाल की जयंती पर उनके चरणों में नमन् करता हूं। मातृभूमि की सेवा एवं गौरव की रक्षा के लिए सम्पूर्ण जीवन समर्पित कर आपने जो राह दिखाई है, उस पर चलते हुए हम सब और भावी पीढ़ियां भी राष्ट्र एवं समाज की सेवा के लिए प्रेरित होती रहेंगी।"   उल्लेखनीय है कि महाराजा छत्रसाल का जन्म 1649 में हुआ। वे मध्य युग के महान प्रतापी योद्धा थे, जिन्होंने मुगल शासक औरंगज़ेब को युद्ध में पराजित कर बुन्देलखण्ड में अपना राज्य स्थापित कर 'महाराजा' की पदवी प्राप्त की। महाराजा छत्रसाल बुन्देला का जीवन बुन्देलखण्ड की स्वतंत्रता स्थापित करने के लिए जूझते हुए निकला। उन्होंने अपने जीवन के अन्तिम समय तक आक्रमणों का सामना किया।

Dakhal News

Dakhal News 4 May 2022


ujjain,Union Minister ,Dharmendra Pradhan

उज्जैन। केन्द्रीय शिक्षा, कौशल उन्नयन एवं उद्यमिता मंत्री धर्मेंद्र प्रधान बुधवार, 4 मई को उज्जैन के प्रवास पर रहेंगे। वे यहां बतौर मुख्य अतिथि मध्यप्रदेश के विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में लागू की गई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के एक वर्ष पूर्ण होने पर आयोजित अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी शामिल होंगे। इसके साथ ही केन्द्रीय मंत्री प्रधान शासकीय माधव विज्ञान महाविद्यालय के ऑडिटोरियम के भूमि पूजन और विक्रम विश्वविद्यालय के डिजिलॉकर के लोकार्पण कार्यक्रम में शामिल होंगे।   कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ मोहन यादव करेंगे। सांसद अनिल फिरोजिया और उज्जैन उत्तर के विधायक पारस जैन बतौर विशिष्ट अतिथि कार्यक्रम में सम्मिलित होंगे। उक्त कार्यक्रम अपराहन 12:30 बजे इंदौर रोड स्थित अंजूश्री होटल में आयोजित किया जा रहा है।   इससे पहले केन्द्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान बुधवार को प्रात: 9 बजे चिन्तामन गणेश रोड स्थित महर्षि सान्दीपनि राष्ट्रीय वेदविद्या प्रतिष्ठान उज्जैन के परिसर में यज्ञशाला, ऑडिटोरियम, कम्प्यूटर लेब तथा स्मार्ट कक्षा के भवनों का शुभारम्भ करेंगे। प्रतिष्ठान परिसर में वैदिक परम्परा अनुसार नौ कुण्डीय यज्ञाशाला का निर्माण किया है। वेद के साथ-साथ आधुनिक विषय एवं आधुनिक पद्धति से अध्ययन-अध्यापन हेतु स्मार्ट कक्षा एवं कम्प्यूटर लेब का भी निर्माण किया गया है।

Dakhal News

Dakhal News 3 May 2022


bhopal,   Parshuram Jayanti,  Home Minister , honored

भोपाल। अक्षय तृतीया व भगवान परशुराम जन्मोत्सव के अवसर पर अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज के संरक्षक एवं मध्य प्रदेश शासन के गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा का अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज ने अभिनन्दन किया। गृह मंत्री दतिया प्रवास पर जाने से पहले समाज बंधुओं के आह्वान पर कुछ समय के लिए रानी कमलापति रेलवे स्टेशन पर भाजपा प्रवक्ता डॉ. दुर्गेश केसवानी के साथ पहुंचे। अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज के प्रदेश अध्यक्ष पुष्पेंद्र मिश्रा एवं अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज के पदाधिकारियों ने पुष्प एवं फरसा देकर गृह मंत्री डॉ. मिश्रा का अभिनन्दन किया।  इस मौके पर गृहमंत्री ने समाज बंधुओं के सम्मान को स्वीकार करते हुए सभी को त्योहार की शुभकामनाएं दीं और कहा कि भगवान परशुराम जी की शिक्षाओं को आत्मसात कर सदैव ही समाज में समानता व न्याय के लिए कार्य करते रहें। समाज में जहां जहां अन्याय व लोगों के साथ असमानता हो। यही भगवान परशुराम जी की सच्ची आराधना है। दतिया प्रवास पर जाने से पहले उन्होंने अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज को राष्ट्र व समाज के उत्थान के लिए नित नए कार्य करने की शुभकामनाएं भी दीं।  

Dakhal News

Dakhal News 3 May 2022


seoni, Congress MLA,ruckus in the case, killing of tribal youths

सिवनी। जिले के आदिवासी बहुल ब्लॉक में दो आदिवासी युवकों की हत्या के मामले में कुरई पुलिस ने घायल बज्रेश बट्टी की रिर्पोट पर बलवा ,हत्या और एसटीएससी एक्ट के मामला दर्ज किया है। इस मामले में पुलिस ने एक आरोपित को गिरफ्तार किया है। वहीं अन्य आरोपितों की तलाश में कुरई पुलिस कर रही है। इधर, इस घटना के विरोध में बरघाट के कांग्रेस विधायक के नेतृत्व में लोगों ने हाइवे पर चक्काजाम कर दिया है। कुरई थाना प्रभारी गनपत उइके ने बताया कि कुरई थाना अंतर्गत बादलपार चौकी प्रभारी को रविवार-सोमवार की दरम्यानी रात्रि के लगभग 3 बजे सूचना मिली कि सिमरिया में दो लोगों को मांस के साथ पकडकर रखा है। इसके बाद मौके पर पुलिस स्टॉफ पहुंचा। जहां पर पुलिस को तीन लोग मिले जिसमें एक को हाथ में चोट लगी थी और दो लोगों को गंभीर चोटें थी। कुरई थाना प्रभारी ने चौकी प्रभारी बादलपार को चोटिल व्यक्तियों को अस्पताल पहुचाने के निर्देश दिये। जिसके बाद तीनों व्यक्तियों को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कुरई पहुंचाया गया जहां गंभीर घायल दो व्यक्ति ग्राम सागर एवं सिमरिया निवासी की उपचार के दौरान मौत हो गई। वहीं एक घायल व्यक्ति की एमएलसी कराई गई। घायल व्यक्ति बज्रेश बट्टी पर रिपोर्ट पर बलवा ,हत्या और एसटीएससी एक्ट के मामला दर्ज किया गया है। जिसने हमला करने वाले तीन व्यक्तियों के नाम बताये हैं। पुलिस ने सूचना तंत्र के माध्यम से अन्य लोगों की जानकारी भी एकत्रित कर ली है। इस मामले में पुलिस ने एक आरोपित को गिरफ्तार भी कर लिया है। पुलिस अन्य आरोपी की पहचान कर जल्द पूरे मामले का खुलासा कर सकती है। इस घटना की जानकारी मिलते ही आदिवासी समुदाय में आक्रोश व्याप्त हो गया, जिसे देखते हुए शांति व्यवस्था कायमी को लेकर वरिष्ठ पुलिस अधिकारी सहित पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। बरघाट विधानसभा के कांग्रेस विधायक अर्जुन सिंह काकोडिया ने बताया कि सिवनी जिले के बरघाट विधानसभा के आदिवासी ब्लॉक कुरई में बजरंग दल के गुंडों के द्वारा 2 आदिवासी समाज के युवकों की बेरहमी से पीट पीट कर दिनदहाड़े हत्या कर दी गयी एवं 1 युवक को गम्भीर रूप से घायल कर दिया गया। इस दर्दनाक घटना के विरोध और दोषियों पर सख्त कार्रवाई की मांग को लेकर नेशनल हाईवे जाम कर धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। उन्होंने तत्काल बजरंग दल पर प्रतिबंध लगाने की माँग मुख्यमंत्री से की है।

Dakhal News

Dakhal News 3 May 2022


bhopal,Health Minister ,Dr. Chaudhary, hospitalized patients

भोपाल। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने सोमवार को उमरिया और शहडोल जिला अस्पताल में भर्ती मरीजों से वर्चुअली संवाद कर उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली। मंत्री डॉ. चौधरी ने मरीजों को मिल रही स्वास्थ्य सेवाओं और अस्पताल की व्यवस्थाओं के बारे में भी जाना। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी जिला अस्पताल की व्यवस्थाओं को सुदृढ़ करने के लिये मरीजों से प्रत्येक सोमवार को चर्चा करते हैं।     स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने उमरिया जिला अस्पताल में भर्ती मंगल रैदास, प्रीतम लाल, संगीता सिंह मार्को, मनप्रीत कौर और शहडोल जिला अस्पताल में भर्ती चंपा बाई, सुवंती, राम सिंह, उमेश साहू से वीडियो कॉल पर स्वास्थ्य संवाद किया। मरीजों ने बताया कि उन्हें अस्पताल में कोई दिक्कत नहीं है। उनके वार्ड में पर्याप्त साफ-सफाई रहती है। रोजाना बिस्तर की चादर बदली जाती है। चाय-नाश्ता और दोनों टाइम भोजन भी मिलता है। किसी प्रकार का कोई पैसा नहीं लगता और सभी दवाइयाँ अस्पताल से ही मिलती हैं, बाहर से नहीं खरीदना पड़ती।

Dakhal News

Dakhal News 2 May 2022


bhopal, Chief Minister ,congratulated, Eid-ul-Fitr

भोपाल। देशभर में मंगलवार को ईद का पर्व मनाया जाएगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ईद उल-फितर के पावन पर्व पर प्रदेशवासियों को बधाई और शुभकामनाएँ दी हैं।   मुख्यमंत्री चौहान ने सोमवार को अपने बयान में कहा है कि ईद उल- फितर का पर्व शांति, सद्भाव, एकता और समरसता का संदेश देता है। उन्होंने भारतीय परम्परानुसार ईद का त्योहार आपसी भाईचारे और सद्भाव के साथ मनाने की अपील की है।

Dakhal News

Dakhal News 2 May 2022


bhopal, Chief Minister Chouhan, planted

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को राजधानी भोपाल के स्मार्ट सिटी उद्यान में शिवलोक ग्रीन्स रहवासी कल्याण समिति के सदस्यों के साथ नीम और करंज के पौधे लगाए। इस दौरान वरिष्ठ पत्रकार एवं संपादक राजेंद्र धनोतिया ने अपने पिता स्व. रामचन्द्र धनोतिया की प्रथम पुण्य-तिथि पर उनकी स्मृति में पौधे लगाए। धनोतिया की माता लीला देवी धनोतिया तथा उनके परिवार के सदस्य भी उपस्थित थे।   बता दें कि समिति द्वारा कॉलोनी में गीले कचरे से खाद बनाने और उस खाद का पेड़-पौधों में उपयोग करने के लिए कॉलोनीवासियों के सहयोग से अभियान चलाया और स्वच्छता बनाए रखने के लिए जन-भागीदारी से सफाई संबंधी कार्य किये जा रहे है। समिति ने कॉलोनी में सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट स्थापित कर सीवेज से प्राप्त उपचारित जल का उपयोग पेड़-पौधों और उद्यान में करने की व्यवस्था की है। मुख्यमंत्री चौहान के साथ पौध-रोपण में समिति के मोहन मिश्रा, उपमा मिश्रा, राखी अहिरवार, पूजा पटेल तथा रविशंकर गोस्वामी शामिल हुए।   उल्लेखनीय है कि नीम स्वाद में भले ही कड़वा हो, लेकिन इससे होने वाले लाभ अमृत के समान होते हैं। पर्यावरण की दृष्टि से भी नीम बहुत उपयोगी है। करंज, आयुर्वेदिक चिकित्सा में महत्वपूर्ण माना गया है। करंज का उपयोग धार्मिक कार्यों में भी किया जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 2 May 2022


indore,Big gift, villages in Sanwer,Minister Silavat

इंदौर। सांवेर विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न गांवों को बिजली के क्षेत्र में एक बड़ी सौग़ात मिली है। जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने रविवार को बताया कि सांवेर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत केंद्र सरकार की पुर्नउत्थान वितरण क्षेत्र योजना के तहत 77 करोड़ रुपये के कार्यों की स्वीकृति प्राप्त हुई है। मंत्री सिलावट ने इस योजना के लिए केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के माध्यम से केंद्रीय ऊर्जा मंत्री से माँग रखी थी। योजना के अंतर्गत स्वीकृत कार्यों से सांवेर विधानसभा के लगभग ढाई सौ ग्राम लाभान्वित होंगे। वहीं लगभग एक लाख उपभोक्ताओं को लाभ मिलेगा। सिलावट ने कार्यों की स्वीकृति के लिए केंद्रीय मंत्री सिंधिया, केंद्रीय उर्जा मंत्री आरके सिंह, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तथा ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर का आभार व्यक्त किया है। मंत्री सिलावट ने बताया है कि नवीन स्वीकृत कार्यों में तीन नए पावर ग्रिड, पाँच ट्रांसफॉर्मर की स्थापना सहित लगभग एक हज़ार किलोमीटर लंबाई की नवीन लाइन की स्थापना शामिल है। 235 वितरण ट्रांसफॉर्मर की क्षमता वृद्धि होगी, 363 नवीन अतिरिक्त वितरण ट्रांसफॉर्मर स्थापित किए जाएंगे और 285 मिश्रित वितरण ट्रांसफॉर्मर का विभक्तिकरण किया जाएगा। वोल्टेज के अपडाउन होने से मोटर जलने इत्यादि की समस्या किसानों को रबी सीज़न में होती है। यह समस्या दूर करने के लिए 38 नए कैपेसिटर बैंक लगाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि इमिली खेड़ा और राजोदा में नवीन 33/11 KV क्षमता के पावर ग्रिड बनाए जाएंगे। इनकी लागत चार करोड़ 66 लाख रुपये होगी। सांवेर विधानसभा के अंर्तगत उज्जैनी क्षेत्र के निकट के गाँव तथा बिलौदा नायता और पंचोला में नवीन अतिरिक्त पावर ट्रांसफॉर्मर लगाए जाएंगे। इनकी कुल लागत 1 करोड़ 34 लाख रुपये होगी। धरमपुरी और हातोद के निकट के सांवेर विधानसभा क्षेत्र में आने वाले तीस गांवों के लिए पावर ट्रांसफॉर्मर की क्षमता वृद्धि की जाएगी। इस कार्य की कुल लागत 63 लाख रुपये होगी। मंत्री श्री सिलावट ने बताया है कि प्रस्तावित 33 kv अतिभारित फ़ीडर के विभाजन हेतु नवीन 33 KV लाइन डाली जाएगी। इसमें जैतपुरा के औद्योगिक क्षेत्र को विशेष तौर पर लाभ होगा। साथ ही बूढ़ी बरलई, हातोद, पेडमी, सिवनी, सांवेर और कन्नौद फ़ीडर के अंर्तगत गांवों को फ़ायदा मिलेगा। इन कार्यों की लागत एक करोड़ 62 लाख रुपये होगी। मंत्री श्री सिलावट ने बिजली विभाग के अधिकारियों को स्वीकृत कार्य शीघ्र प्रारंभ करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि टेंडर प्रक्रिया जल्द प्रारंभ की जाए।

Dakhal News

Dakhal News 1 May 2022


bhupendra gupta congress

तेल की धार - चौतरफा मार   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहली बार पेट्रोल डीजल की कीमतों के बढ़ने से पांव पसार रही महंगाई पर चिंता जाहिर की है। भले ही इसके लिए उन्होंने राज्यों को जिन्होंने वेट टेक्स नहीं घटाया जिम्मेदार बताकर अपनी इतिश्री कर ली हो लेकिन इतना तय है कि तेल की धार और गरीबों पर मार बदस्तूर जारी है।  अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में क्रूड तेल की कीमतें घट रही हैं,रूस 35 डालर प्रति बेरेल का डिस्काउंट देने तैयार है।रूस से सस्ता क्रूड खरीदने पर अमरीका को आपत्ति भी नहीं है।ब्रेंट क्रूड के दामों में भी लगभग 8 डालर की कमी आई है मगर इसका असर भारतीय बाजार पर नहीं दिख रहा है। हालांकि यह बार-बार  कहा जा रहा है कि पेट्रोल की कीमतें बाजार की कीमतों से जुड़ी हुई है।  नवंबर 21 में चीन द्वारा खरीदी रोक देने के कारण क्रूड ऑयल की कीमतों में 10% क्रेस हुई थी जिसके कारण सरकार ने एक्साइज ड्यूटी कम करने के नाम पर कीमतें घटा दी थीं जबकि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमतें घटने का ही यह असर था।  भारत अपनी जरूरतों का लगभग 23% क्रूड खुद ही पैदा करता है। उसमें भी नीति यह है कि 50% खनिज तेल बेचकर अर्जित मुनाफे से कीमतों को संतुलित किया जावे। इस नीति के बावजूद यह समझ से परे है कि हमारी तेल कंपनियां निरंतर राष्ट्रीय उत्पादन को क्यों घटाती चली जा रही हैं ।देश की तेल जरूरतें पूरी करने के लिए भारतीय स्रोतों से 2013 में लगभग 38 मिलियन मीट्रिक टन का उत्पादन होता था जो 2020 में घटकर 30 मिलियन मीट्रिक टन हो गया है ।जो लगभग नियमित उत्पादन से 22फीसद कम है।  भारत की पंच रत्न कंपनी ओएनजीसी विश्व में अपना अहम स्थान रखती है ।वह भारत के स्थानीय स्रोतों के अलावा  15 अन्य देशों में "ओएनजीसी विदेश" के माध्यम से खनिज तेल का उत्पादन करती है। एमआरपीएल और एचपीसीएल जैसी कंपनियां उसके स्वामित्व में हैं।ओएनजीसी फोर्ब्स की रैंकिंग में विश्व की 500 फार्च्यून कंपनियों में चौथे स्थान पर रखी जाती है जबकि प्लैट्स की रैंक में दुनिया की ढाई सौ ऊर्जा कंपनियों में वह 11 वें में स्थान पर आती है। भारत में स्ट्रैटेजिक पैट्रोलियम रिसोर्स (एसपीआर ) का खनन ही हमारी कीमतों को नियंत्रित करता है। ओएनजीसी की कमाई में रिफाइनरी का बड़ा हिस्सा है।वहअपनी स्थापित क्षमता का 91%  रिफायनिंग ओएनजीसी और उसके संयुक्त उपक्रम कंपनियां करती हैं। जबकि जामनगर स्थित रिलायंस की रिफाइनरी अपनी स्थापित क्षमता का 83% रिफाइन कर पाती है। भारत को अपनी जरूरतों के लिए लगभग 239 मिलियन टन खनिज तेल आयात करना पड़ता है जिसकी कीमत तकरीबन 77 बिलियन डालर होती है। हम अपनी जरूरतों का 14% अमेरिका से 12% सऊदी अरेबिया से और 23% इराक से आयात करते हैं।  जब वैश्विक बाजार में खनिज तेल की कीमतों में उतार-चढ़ाव का दौर चल रहा है तब भारत में अपने घरेलू उत्पादन को लगभग 22% तक घटा दिया गया है। यह प्रश्न उत्तर मांगता है कि क्या यह ओएनजीसी जो विश्व में चौथा स्थान रखने वाली कंपनी है ,को बीएसएनएल बनाने के रास्ते ले जाने की कबायद है या उसे किसी निजी हाथों को सौंपने का पूर्वाभ्यास है। रूस ने भारत को 35 डालर डिस्काउंट पर क्रूड आयल देने की पेशकश की है। युराल (रूसी क्रूड) की खरीदी पर शिपिंग एवं मार्ग के बीमा का खर्च भी रूस उठाने तैयार है। आज की स्थिति में भारत पैट्रोलियम(बीपीसीएल) रूस से 2 मिलियन बैरल क्रूड आयात करता है ।कोची रिफायनरी लगभग 3लाख बैरल, बैंगलोर रिफायनरी 10 लाख बैरल तथा निजी रिफाइनरी नायरा 18लाख बैरल ट्रैफिगुरा ट्रेडर के माध्यम से रूस से 89 डॉलर प्रति बैरल में क्रूड आयल खरीद रहे हैं जबकि अमरीका और ओपेक बाजारों में यह लगभग 108 डालर प्रति बैरल है। भारत के लिए यह समझने योग्य बात है कि ऐसी अवस्था में हमारा क्रूड आयात जो 158 मिलियन मीट्रिक टन था वह बढ़कर 227 मिलियन मीट्रिक टन क्यों हो गया है? संभव है इसमें घरेलू खपत भी बढ़ी हो।किंतु उसी समय हमारा घरेलू उत्पादन जो लगभग 38 मिलियन टन था वह घटकर 30 मिलियन टन क्यों पहुंचा दिया गया है। हमारा खपत डेफिसिट 3.4 मिलियन बैरल प्रति दिन है जबकि आयात 4.25 मिलियन बैरेल प्रति दिन हो रहा है।ओएनजीसी जो भारत का 70% क्रूड उत्पादित करती है की नेट बर्थ 2 ट्रिलियन रुपये है जबकि उसके सितंबर तिमाही का मुनाफा ही 18 हजार 347 करोड़ रुपये है।साल में 70-75हजार करोड़ मुनाफा कमाने वाली कंपनी को विनिवेश की राह पर ले जाने के लिये क्या उसका उत्पादन घट रहा है और आयात बढ़ रहा है या कोई अन्य तकनीकि कारण हैं जो आम भारतीय जाऩा चाहता है? फिलहाल तो तेल की धार की चौतरफा मार से पूरा बाजार और गरीब थर थर कांप रहा है।   (लेखक स्वतंत्र पत्रकार हैं)  

Dakhal News

Dakhal News 1 May 2022


bhopal, Home Minister ,gifted 20 ambulances , hospitals Datia district

भोपाल। प्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने शनिवार को जिला चिकित्सालय दतिया सहित जिले के अन्य अस्पतालों के लिये 20 नये एम्बुलेंस वाहन लोकार्पित किये। उन्होंने कहा कि जिले में स्वास्थ्य सुविधाओं की बेहतरी के लिये कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेंगे।   मंत्री डॉ. मिश्रा ने कहा कि दतिया जिले के अस्पतालों में 20 नये एम्बुलेंस वाहन और जुड़ जाने से अब मरीजों को त्वरित उपचार उपलब्ध हो सकेगा। उन्होंने कहा कि जिले में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिये निरंतर प्रयास किये जा रहे हैं। अस्पतालों को आधुनिक सुविधाओं से लैस किया जा रहा है। सरकार का प्रयास है कि मरीजों को अन्यत्र बड़े शहरों की ओर न जाना पड़े और उन्हें स्थानीय स्तर पर कम समय में बेहतर सुविधाएँ उपलब्ध हो सकें।   डॉ. मिश्रा ने कहा कि निश्चित ही एम्बुलेंस वाहनों के आ जाने से गंभीर रूप से घायल और पीड़ितों को अस्पतालों में पहुँचाया जाकर समय पर उपचार की सुविधा उपलब्ध कराई जा सकेगी।   मंत्री डॉ. मिश्रा ने चलाई एम्बुलेंस गृह मंत्री डॉ. मिश्रा ने जिला चिकित्सालय दतिया में एम्बुलेंस को चला कर ट्रायल भी लिया। उन्होंने एम्बुलेंस में उपलब्ध व्यवस्थाओं को देखा। कार्यक्रम में विपिन गोस्वामी, गिन्नी राजा परमार, पुष्पेंद्र रावत, योगेश सक्सेना सहित जन-प्रतिनिधि और कलेक्टर संजय कुमार, मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. दिनेश उदेनिया, सीएमएचओ डॉ. आर.बी. कुरेले, सिविल सर्जन डॉ. के.सी. राठौर एवं अधिकारी तथा चिकित्सक उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 30 April 2022


ujjain,Mega Job Fair ,Minister Dr. Yadav

उज्जैन। विक्रम विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित वृहद रोजगार उत्सव प्रतिकल्पा उत्कर्ष विक्रम परिक्षेत्र के युवाओं को जॉब अवसर उपलब्ध कराने के लिए महत्वपूर्ण उपलब्धि सिद्ध हुआ है। युवा वर्तमान दौर के अनुरूप कंपनियों की आवश्यकताओं पर खरा उतरने के लिए विशेष परिश्रम करें, उन्हें सफलता अवश्य मिलेगी। इस प्रकार के आयोजन युवाओं को रोजगार एवं गहन प्रशिक्षण उपलब्ध कराने में सार्थक सिद्ध होते हैं।   यह विचार प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने शनिवार को विक्रम विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी एसओईटी देवास रोड पर आयोजित वृहद रोजगार मेले प्रतिकल्पा उत्कर्ष का अवलोकन करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने जॉब फेयर में शामिल विभिन्न कंपनियों के प्रतिनिधियों से चर्चा कर विद्यार्थियों की क्षमताओं का आकलन किया एवं महत्त्वपूर्ण सुझाव दिए।   प्रतिकल्पा उत्कर्ष में विभिन्न अध्ययन क्षेत्रों से जुड़े लगभग डेढ़ हजार पूर्व एवं वर्तमान विद्यार्थियों ने पंजीयन करवाए। देर शाम तक चले इस रोजगार मेले में 35 से अधिक कंपनियों ने विविध विषय क्षेत्रों के युवाओं को 500 जॉब अवसर उपलब्ध करवाए।   प्रतिकल्पा उत्कर्ष-मेगा जॉब फेयर का उद्घाटन प्रातः 10 बजे एसओईटी के सभागार में विक्रम विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.अखिलेश कुमार पांडेय की अध्यक्षता में संपन्न हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रुचि सोया, इंदौर के सीईओ संजीव खन्ना थे। विशिष्ट अतिथि कुलसचिव डॉ.प्रशांत पुराणिक थे। कार्यक्रम की प्रस्तावना कुलानुशासक प्रो शैलेंद्रकुमार शर्मा ने प्रस्तुत की।   मुख्य अतिथि संजीव खन्ना ने कहा कि संसार में प्रत्येक व्यक्ति की अपनी कोई विशेषता है। अनुकरण करने के कारण व्यक्ति अपनी मौलिकता को खो देता है। इसलिए स्वयं को नकल की प्रवृत्ति से मुक्त रख बेहतर बनने का प्रयास करें। प्रत्येक व्यक्ति स्वयं को प्रतिदिन एक प्रतिशत इंप्रूव करने की कोशिश करें। व्यावसायिक दक्षता प्राप्त करने के साथ अच्छे इंसान बनना जरूरी है।   विक्रम विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो अखिलेश कुमार पांडेय ने कहा कि युवाओं के मध्य नई कार्य संस्कृति विकसित करने की आवश्यकता है। नए दौर श्रम शक्ति महत्वपूर्ण है। बेरोजगारी पर अंकुश के लिए जरूरी है कि युवा प्रोफेशनल दृष्टिकोण के साथ नई कार्य संस्कृति विकसित करने का प्रयास करें। वर्तमान दौर में हैप्पीनेस इंडेक्स को बढ़ाने के लिए विशेष प्रयास करने होंगे। युवा अपने लक्ष्य को निर्धारित करते हुए आत्ममंथन करें, उन्हें सफलता प्राप्त होगी।   कुलसचिव डॉ.प्रशांत पुराणिक ने अपने उद्गार में विभिन्न कंपनियों और सम्मिलित युवाओं के प्रति मंगलकामनाएं व्यक्त की। मेगा जॉब फेयर की संकल्पना पर कुलानुशासक प्रो.शैलेंद्र कुमार शर्मा ने प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के जॉब फेयर प्रतिवर्ष चार बार आयोजित किए जाएंगे। इस अवसर पर वरिष्ठ उद्योगपति श्री संजीव खन्ना को शॉल एवं श्रीफल अर्पित कर उनका सम्मान किया गया।   उल्लेखनीय है कि रोजगार मेले में सम्मिलित 35 से अधिक कंपनियों में रुचि सोया, रॉयल आईटी, हाइपर बिन्स, एमआर सॉफ्टवेयर, नवभारत फर्टिलाइजर, शिव शक्ति फर्टिलाइजर, फिटमैक्स जिम, स्टार हेल्थ, ई वे सोल्यूशंन्स, होटल मित्तल, वीबर कंस्ट्रक्शन, डोमिनोज आदि प्रमुख थीं।

Dakhal News

Dakhal News 30 April 2022


bhopal, Chief Minister Chouhan, planted a sapling

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को नई दिल्ली प्रवास के दौरान मध्यप्रदेश भवन परिसर के नज़दीक कौटिल्य मार्ग पर ‘चम्पा’ का पौधा लगाया।   गौरतलब है कि मुख्यमंत्री चौहान वर्ष 2021 की नर्मदा जयंती से निरंतर प्रतिदिन पौधा लगा रहे हैं। मुख्यमंत्री चौहान नागरिकों को भी वर्ष में कम से कम एक पौधा लगाने के लिये प्रेरित करते हैं।

Dakhal News

Dakhal News 30 April 2022


Congress leader Kamal Nath resigns as Leader of Opposition in MP

अनुराग उपाध्याय कांग्रेस में बढ़ी दिग्विजय सिंह की ताकतकमलनाथ अब सिर्फ एमपीसीसी के अध्यक्ष गोविन्द बोले सुर्खाब के पर नहीं लग गएभाजपा ने कहा कांग्रेस के बुरे दिन शुरू विधानसभा की कार्यवाही को बकवास करार देने के बाद आखिरकार कमलनाथ ने  नेता प्रतिपक्ष का पद छोड़ दिया है | अब वे मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में काम करते रहेंगे | कमलनाथ के बकवास के बाद से उन पर चौतरफा दबाव था | विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम भी उन पर कार्यवाही किये जाने का संकेत दे चुके हैं | ऐसे में कांग्रेस ने कमलनाथ को नेता प्रतिपक्ष के पद से हटा के डॉ गोविन्द सिंह को नेता प्रतिपक्ष बनाया है | अंदर की खबर ये भी है कि यह सब कमलनाथ की सहमति से हुआ हैं |    बड़े लम्बे समय से चर्चा थी कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और नेता प्रतिपक्ष में से एक पद छोड़ना पडेगा | विपक्ष भी इस मसले पर लगातार कमलनाथ पर हमला बोल रहा था | प्रदेश के गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने तो सार्वजानिक तौर पर कांग्रेस से कहा था कि पूर्व मंत्री ,वरिष्ठ विधायक हमारी साथी डॉ गोविन्द सिंह को नेता प्रतिपक्ष बनाया जाए | उसके बाद गोविन्द सिंह ने भी कहा था नरोत्तम मिश्रा जैसे दोस्त हों तो फिर दुश्मन की जरुरत क्या है | लेकिन अब ऐसा लगता है कांग्रेस ने डॉ नरोत्तम मिश्रा की सुन ली |  पिछले दिनों नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ ने विधानसभा की कार्यवाही को बकवास करार दिया  था |  तब से भाजपा ने कमलनाथ को घेरने की चौतरफा तैयारी कर ली थी | भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा ने बाकायदा इसकी शिकायत कि और विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने साफ़ कहा कि अगर विधान सभा की कार्यवाही बकवास है तो कमलनाथ को इस्तीफ़ा दे देना चाहिए | अब नेता प्रतिपक्ष बनने के बाद डॉ गोविन्द सिंह ने कहा मैं लगातार सरकार की गलत नीतियों का विरोध करता रहा हूं |  अब भी करूंगा  | नेता प्रतिपक्ष बनने से कोई सुर्खाब के पर नहीं लग गए हैं |  गोविन्द सिंह कांग्रेस के सीनियर विधायक हैं | समाजवादी राजनीति से कांग्रेस तक उनको लंबा तजुर्बा  है | लेकिन उनके ताजा बयान से ऐसा लगा कि नेता प्रतिपक्ष बनने के बाद भी बहुत ज्यादा खुश नहीं हैं | गोविन्द सिंह को कांग्रेस में दिग्विजय सिंह कैम्प का नेता माना जाता है | गोविन्द सिंह के नेता प्रतिपक्ष बनने से मध्यप्रदेश कांग्रेस में दिग्विजय सिंह खेमा फिर मजबूत हो रहा हैं | डॉ  गोविन्द  सिंह को को राजनीती और खासकर संसदीय राजनीति और ज्ञान का लंबा तजुर्बा है और इसका लाभ भी विधानसभा में कांग्रेस को मिलेगा | बिखरी हुई कांग्रेस को सदन में एक राय करना  भी गोविन्द सिंह को आता है |  लेकिन गोविन्द सिंह और गृहमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा की दोस्ती विधानसभा  में कई नए गुल खिलाएगी | भाजपा ने कांग्रेस आलाकमान को बधाई दी और कहा कि उन्होंने विधानसभा को बकवास कहने वाले को पद से हटा दिया है | ये एक अच्छा निर्णय है | लेकिन कांग्रेस के लिए दिग्विजय सिंह खेमे को ताकत देना कांग्रेस के बुरे दिनों की शुरुवात हैं | डॉ गोविन्द सिंह को नेता प्रतिपक्ष बनवा कर  दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस में अपनी ताकत को साबित  करने के साथ ये भी बता दिया है कि वे ही कांग्रेस के बड़े रणनीति कार हैं | इससे पहले वे अपने समर्थक विक्रांत भूरिया को युवा कांग्रेस अध्यक्ष और विभा पटेल को प्रदेश महिला कोंग्रस अध्यक्ष बनवा चुके हैं | यकीनन  कांग्रेस में ये दिग्विजय सिंह की बढ़ती ताकत ही है कि वे  जैसा  चाहते हैं आला कमान को वो फैसला करना पड़ता है | जबकि कांग्रेस के तमाम बड़े नेता | नेता प्रतिपक्ष पर किसी युवा नेता को बैठना चाहते थे | कांग्रेस का कहना है कमलनाथ अब अपना पूरा फोकस  मिशन 2023 पर करंगे | लेकिन एक सच्चाई ये भी है कि मध्यप्रदेश में  कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह जैसे ही सामने आते हैं मतदाता उनके नाम से ही बिधक जाता है | अब कांग्रेस को ये देखना पडेगा कि दिग्विजय की बढ़ती ताकत कहीं कांग्रेस का दम न निकाल दे |

Patrakar Anurag Upadhyay

Anurag Upadhyay 28 April 2022


bhopal, Chief Minister ,expressed grief

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश के सतना जिले के नौगवां निवासी सीआईएसएफ के जवान शंकर प्रसाद पटेल के जम्मू-कश्मीर में साहस के साथ आतंकियों से लड़ते हुए शहीद होने पर गहरा दुख व्यक्त किया है।   मुख्यमंत्री चौहान ने वीर जवान के चरणों में सादर श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि शंकर प्रसाद जी सदैव हमारी स्मृतियों में रहेंगे। मुख्यमंत्री ने ईश्वर से दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान देने एवं परिजन को इस दुख को सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है।

Dakhal News

Dakhal News 22 April 2022


bhopal, Union Home Minister Shah ,Chief Minister

भोपाल। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह शुक्रवार को भोपाल के प्रवास पर रहे। दोपहर में वे भोजन के लिए मुख्यमंत्री निवास पहुंचे, जहां उनका आत्मीय स्वागत हुआ। केन्द्रीय गृह मंत्री शाह का मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित केन्द्रीय एवं राज्य मंत्रि-परिषद के सदस्यों और जन-प्रतिनिधियों द्वारा आत्मीय स्वागत किया गया।   इस अवसर पर केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, जल शक्ति और खाद्य प्र-संस्करण राज्य मंत्री प्रहलाद पटेल, केन्द्रीय इस्पात एवं ग्रामीण विकास राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते, मत्स्य-पालन, पशुपालन और डेयरी राज्य मंत्री डॉ. एल. मुरगन, गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा, गृह एवं खेल राज्य मंत्री निशीथ प्रमाणिक, सांसद वीडी शर्मा, राकेश सिंह, प्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, हितानंद शर्मा सहित अन्य जन-प्रतिनिधि मौजूद थे। केन्द्रीय गृह मंत्री शाह ने मुख्यमंत्री निवास में दोपहर का भोज भी किया।   केन्द्रीय गृह मंत्री शाह नई दिल्ली रवाना, मुख्यमंत्री और मंत्रीगणों ने दी विदाई केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह को एक दिवसीय प्रवास के बाद शुक्रवार देर शाम भोपाल से नई दिल्ली रवाना होने पर स्टेट हैंगर पर विदाई दी गई। इस दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल सहित राज्य मंत्रि-परिषद के सदस्य, निगमों के अध्यक्ष और अन्य जन-प्रतिनिधि, वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित थे। केंद्रीय गृह मंत्री शाह करीब आठ घंटे भोपाल में रहे।

Dakhal News

Dakhal News 22 April 2022


bhopal, Chief Minister Chouhan, planted

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को राजधानी भोपाल के स्मार्ट सिटी उद्यान में जय हिंद सेना संस्था के अरुण पांडे, अभिषेक नमीना, वैभव योगी तथा पीयूष रायकवार के साथ केसिया और करंज के पौधे लगाए।     बता दें कि संस्था युवाओं को राष्ट्रहित में कार्य करने के लिए जागृत करती है। विगत 5 वर्षों से पर्यावरण- संरक्षण एवं पौधा-रोपण का पुनीत कार्य भी निरंतर किया जा रहा है। इस क्रम में संस्था ने भोपाल के अवधपुरी, गोविंदपुरा, कोटरा सुल्तानाबाद, नेहरू नगर, साउथ टी.टी. नगर, शासकीय विद्यालयों एवं धार्मिक स्थलों पर वृक्षा-रोपण किया है। आवश्यकता अनुसार समाज सेवा के कार्यों में भी संस्था सक्रिय रहती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं जय हिंद सेना के पुनीत कार्यों के लिए सभी साथियों का अभिनंदन करता हूं और अपनी शुभकामनाएं देता हूं।     उल्लेखनीय है कि केसिया की छाल और पत्तियों का उपयोग आयुर्वेदिक दवाएँ बनाने में किया जाता है। करंज आयुर्वेदिक चिकित्सा में महत्वपूर्ण माना गया है। करंज का उपयोग धार्मिक कार्यों में भी किया जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 22 April 2022


khargon,make arrangements , Minister in charge

खरगोन। प्रदेश के कृषि मंत्री एवं जिले के प्रभारी कमल पटेल गुरुवार को शहर के पथराव से प्रभावित क्षेत्रों का भ्रमण किया। उन्होंने अपने दौरे की शुरुआत तालाब चौक से की। कलेक्टर अनुग्रहा पी और एसपी रोहित काशवानी ने वस्तुस्थिति बताई। प्रभावित क्षेत्रों में करीब डेढ़ घंटे प्रभारी मंत्री ने महिला बुजुर्ग, पुरुष और विद्यार्थियों की आपबीती सुनी। उन्होंने माता-बहनों के आंसू पोंछे और उनके पैर छूकर आशीर्वाद लिया और ढांढस बंधाया। प्रभारी मंत्री पटेल ने प्रभावितों से सीधे तौर पर कहा कि सबसे पहले प्रभावितों को हुई क्षति नुकसान की व्यवस्था व सुविधा करेंगे। साथ ही जिन लोगों ने मासूम नागरिको के साथ बुरा बर्ताव किया और ह्रदय विदारक घटना में शहर की शांति को भंग कर इंसानियत को झकझोर दिया, उन्हें हर हाल में बख्सा नहीं जाएगा। दंगाइयों के साथ शासन सख्ती से निपटेगी। प्रशासन अब से ऐसी व्यवस्था करेंगी, जो सबकी सुरक्षा के लिए होगी। प्रभावित क्षेत्रों में पुलिस चौकियां और थाना तथा सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। प्रभारी मंत्री ने तालाब चौक, संजय नगर, त्रिवेणी चौक, भाटवाड़ी, काजीपुरा व गौशाला मार्ग का जायजा लिया। इन क्षेत्रों के निवासियों के घरों में जाकर क्षति का मुआयना करते हुए कलेक्टर और एसपी को निर्देशित किया। इस दौरान जिला अध्यक्ष राजेन्द्र राठौड़, रवि वर्मा, मोहन जायसवाल सहित एडीएम श्री एसएस मुजाल्दा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अंकित जायसवाल, एएसपी डॉ. नीरज चौरसिया, एसडीएम मिलिंद ढोके, तहसीलदार योगेंद्र मौर्य सहित पटवारी व राजस्व अमला उपस्थित रहा। लक्ष्मी की पढ़ाई के लिए 20 हजार रुपये की विधायक निधि दी भ्रमण के दौरान प्रभारी मंत्री पटेल को संजय नगर की लक्ष्मी पंवार ने अपनी जली हुई स्कूटी दिखाते हुए बताया कि मेरी बीकॉम की किताबें भी जला दी है। प्रभारी मंत्री ने कहा कि आप मेरी बेटी और आपके पिता भाई व माँ बहन के समान है। आपकी स्कूटी और पढ़ाई के लिए अभी तत्काल 20 हजार रुपये की विधायक निधि देता हूं। इससे आपको थोड़ी मदद होगी। इसके अलावा प्रभावितों को जो शासन देगा वो अलग है। घटना की नहीं होने देंगे पुनर्रावृत्ति: मंत्री संजय नगर में निरीक्षण के दौरान रक्षा प्रकाश माली ने 2015 में हुए पथराव के फोटो दिखाकर पूछा कि ऐसा कब तक होगा। प्रभारी मंत्री ने कहा कि अब ऐसे दिन दोबारा नहीं आएंगे। दंगाइयों पर ऐसी कार्यवाही करेंगे। जिससे उन्हें हमेशा के लिए सबक मिलेगा। लेकिन उससे पहले आपकी सुविधा आवश्यक है। प्रभारी मंत्री संजय नगर में मनीष गुप्ता, प्रीति चाँदोरे, नत्थू मंशाराम, मीराबाई राजाराम, मनोहर मोहन, राजेश काशीराम कुल्मी और 95 वर्षीय शांता बाई से भी मिलकर घटनाक्रम की जानकारी ली।     लक्ष्मी के पैर छुए और सिर पर हाथ रखकर दिया आशीर्वाद   संजय नगर में भ्रमण के दौरान प्रभारी मंत्री पटेल लक्ष्मी मुछाल से हालात जाने। मंत्री पटेल ने लक्ष्मी के पैर छुए और सिर पर हाथ रखकर आशीर्वाद दिया। बताया गया कि अभी 11 अप्रैल से लक्ष्मी की विवाह होना था। लेकिन हालात बदल गए। प्रभारी मंत्री ने कलेक्टर अनुग्रहा को बुलाकर पूरी सहायता करने के निर्देश देते हुए शासन द्वारा विवाह कराने का आश्वाशन दिया।   सजय नगर के बाद मंत्री पटेल भाटवाड़ी क्षेत्र का जायज़ा लिया। इसके पश्चात वे काजीपुरा में राजकंवर बाई द्वारा बर्तनों की सूची सौंपी गई। इसी क्षेत्र में प्रताप और संतोष के जले हुए मकानों का भी अंदर पहुंचकर अवलोकन किया। इसके पश्चात प्रभारी मंत्री पटेल पार्टी के पदाधिकारियों के साथ मीटिंग करने पहुंचे।

Dakhal News

Dakhal News 21 April 2022


jabalpur,  Petition dismissed , High Court ,bulldozer action

जबलपुर। मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय की युगल पीठ ने गुरुवार को बुल्डोजर कार्रवाई के खिलाफ लगी याचिका को खारिज कर दिया है, न्यायालय ने अपने आदेश में कहा कि याचिकाकर्ता न तो पीडि़त है और न ही पीडि़त से कोई सीधा संबंध है, इसलिए मामला सुनवाई योग्य नहीं है।   मप्र उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश मा. रवि मलिमठ व न्यायाधीश पी.के. कौरव की युगल पीठ ने तर्को के साथ याचिका निरस्त कर दी, युगल पीठ ने कहा कि अगर किसी पीडि़त के साथ कुछ गलत हो रहा है तो वह स्वयं सामने आकर न्यायिक प्रक्रिया अपनाकर अपनी समस्या रख सकता है।   मंडला रोड बिलहरी निवासी अधिवक्ता अमिताभ गुप्ता की ओर से हाईकोर्ट में जनहित याचिका लगाकर प्रदेश में बुलडोजर की कार्रवाई पर रोक लगाने की मांग की गई थी। याचिका में अधिवक्ता की ओर से दलील दी गई थी कि सरकार की बुलडोजर कार्यवाही से लोगों के मौलिक अधिकारों का हनन हो रहा है, राज्य सरकार के द्वारा प्रदेश के आम लोगों में भय का माहौल पैदा करने की कोशिश की जा रही है। याचिका में म.प्र.सरकार और महानिदेशक पुलिस म.प्र. को पक्षकार बनाया गया था, राज्य सरकार का पक्ष अतिरिक्त महाधिवक्ता अशीष आनंद बर्नाड ने रखा।

Dakhal News

Dakhal News 21 April 2022


bhopal, Deputy Engineer posts, Ajay Singh

भोपाल। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने उपयंत्री, मानचित्रकार, समयपाल और समकक्ष अराजपत्रित पदों को केवल मध्यप्रदेश के रहवासी उम्मीदवारों से ही भरे जाने की मांग मुख्यमंत्री शिवराज सिंह से की है। उन्होंने कहा कि राजपत्रित पदों पर तो यूपीएससी के नियमों के अनुरूप अन्य राज्यों के उम्मीदवारों को मौका दिया जा सकता है, लेकिन उससे नीचे के पदों पर तो मध्यप्रदेश के बेरोजगारों का ही हक़ बनता है। अजय सिंह ने कहा कि इन पदों पर पीईबी द्वारा भर्ती के लिए विज्ञापन जारी किये गये हैं जिनकी अंतिम तिथि आगामी 23 अप्रैल है। इस तारीख से पहले संशोधित विज्ञापन जारी कर मध्यप्रदेश के रहने वाले बेरोजगारों के आवेदन बुलाये जायें। इसके लिए यह भी किया जा सकता है कि केवल वे ही उम्मीदवार आवेदन के पात्र होंगे जिन्होंने 12 वीं बोर्ड की परीक्षा मध्यप्रदेश से पास की है। उन्होंने कहा कि यदि शिवराज सिंह को वाकई प्रदेश के बेरोजगारों की चिंता है और अपने प्रदेश से लगाव है तो उन्हें तत्काल संशोधित विज्ञापन जारी करना चाहिए।   पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने स्व. अर्जुनसिंह के मुख्यमंत्रित्व काल को याद करते हुये कहा कि उस समय प्रदेश के रहने वाले सैकड़ों लोग राजपत्रित पदों पर वर्षों से तदर्थ रूप से कार्य कर रहे थे। महाविद्यालयों में तो राज्यस्तरीय विज्ञापन निकाल कर मेरिट के आधार पर सहायक प्राध्यापक नियुक्त किये गये थे। उस समय उन्होंने सभी को कैबिनेट में निर्णय लेकर नियमित कर दिया था। ऐसा करने के पीछे सबसे बड़ा कारण यही था कि वे सभी मध्यप्रदेश राज्य के रहने वाले थे। मध्यप्रदेश की जनता से उनका इस तरह का लगाव था। उन्होंने कहा कि मैं शिवराजसिंह को यह सब इसलिए याद दिला रहा हूँ कि वे भी मध्यप्रदेश के लोगों को छोटे छोटे पदों पर नौकरी देने के लिए इसी तरह कोई तरीका निकालें, ऐसा करके वे प्रदेश के बेरोजगारों के साथ न्याय कर सकेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 21 April 2022


bhopal, Higher Education Minister , construction works

भोपाल। उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि निर्माण एजेंसियों द्वारा जो विभागीय निर्माण कार्य पेंडिंग हैं, उन कार्यों को समय-सीमा में अनिवार्य रूप से पूर्ण कराया जाए। मंत्री डॉ. मोहन यादव बुधवार को मंत्रालय में विभागीय निर्माण कार्यों की समीक्षा कर रहे थे।   इस मौके पर उन्होंने निर्देश दिए अधिकारी संबंधित निर्माण एजेंसी से चर्चा कर तीन साल से ज्यादा पुराने निर्माण कार्यों को चिन्हित कर त्वरित कार्यवाही करें। उन्होंने निर्माण एजेंसियों से पूर्ण कार्यों और प्रगतिरत निर्माण कार्यों की सूची देने के निर्देश दिए।   उच्च शिक्षा आयुक्त दीपक सिंह ने प्रदेश के 8 नवीन आदर्श महाविद्यालयों की अद्यतन जानकारी प्रस्तुत की। उन्होंने बताया कि नवीन आदर्श महाविद्यालय दमोह, खंडवा और सिंगरौली के भवन निर्माण का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। इन्हें शिक्षण सत्र 2022-23 प्रारंभ किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि नवीन आदर्श महाविद्यालय बड़वानी का कार्य भी इस माह के अंत तक पूर्ण कर लिया जायेगा। नवीन आदर्श महाविद्यालय राजगढ़ का निर्माण कार्य जून 2022 तक, आदर्श महाविद्यालय, विदिशा एवं गुना का कार्य दिसम्बर 2022 तथा नवीन आदर्श महाविद्यालय छतरपुर का कार्य मार्च 2023 तक पूर्ण किया जायेगा।   बैठक में पीडब्ल्यूडी अंतर्गत परियोजना क्रियान्वयन इकाई, भोपाल विकास प्राधिकरण, म.प्र. गृह निर्माण एवं अधोसंरचना विकास मण्डल, म.प्र. पुलिस आवास एवं अधोसंरचना विकास निगम तथा विश्वविद्यालय यान्त्रिकी विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 20 April 2022


bhopal, increase ,63 percent ,very dense forest area

भोपाल। वन मंत्री डॉ. कुंवर विजय शाह ने बुधवार को बताया कि मध्यप्रदेश में अति सघन वन क्षेत्रफल में 63 फीसदी की बढ़ोत्तरी हुई है। वर्ष 2005 में 4239 वर्ग किलोमीटर अति सघन वन क्षेत्रफल था, जो अब बढ़कर 6665 वर्ग किलोमीटर तक हो चुका है। भारतीय वन सर्वेक्षण संस्थान देहरादून द्वारा वर्ष 2021 में प्रकाशित रिपोर्ट में इसका उल्लेख किया गया है।   15 हजार 608 वन समितियां वन मंत्री डॉ. शाह ने बताया कि प्रदेश के 79 लाख 70 हजार हेक्टेयर वन क्षेत्र के वन प्रबंधन में जन-भागीदारी हेतु प्रदेश के 15 हजार 608 ग्रामों में वन समिति गठित है। वनों के प्रबंधन में आश्रित समुदायों की भागीदारी से सकारात्मक परिणाम आए हैं। जहाँ एक ओर दुनिया में प्राकृतिक वनों के ऊपर खतरा मंडरा रहा है। ऐसी स्थिति में भी प्रदेश में हजारों ग्राम समुदायों ने वन विभाग के साथ मिलकर बिगड़े वन क्षेत्रों को अच्छे वनावरणों वाले वन-क्षेत्रों में परिवर्तन का कार्य किया है। वन क्षेत्रों में हुई वृद्धि में प्रदेशवासियों खास तौर पर वन क्षेत्रों के आस-पास रहने वाले जनजातीय समुदायों की अहम भूमिका रही है।   वन समितियों को अब राजस्व का मिलेगा 20 प्रतिशत हिस्सा वन मंत्री डॉ.शाह ने बताया कि प्रदेश में गठित वन समितियों को राजस्व का 20 फीसदी हिस्सा दिए जाने का निर्णय लिया गया है। इस व्यवस्था के कायम होने से वन समितियाँ आर्थिक रूप से मजबूत होगी। खास तौर पर जनजातीय वर्ग को इसका लाभ मिलेगा। उन्होंने बताया कि वन ग्राम को राजस्व ग्राम में परिवर्तन करने की माँग के दृष्टिगत मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर राजस्व विभाग के साथ सैद्धान्तिक सहमति प्राप्त हो चुकी है। अब यथाशीघ्र इसकी प्रक्रिया प्रारंभ की जाएगी।   वन्य-प्राणी और वनस्पति संरक्षण में अग्रणी राज्य मध्यप्रदेश के वन सागौन, साल जैसी बे-शकीमती इमारती लकड़ी और बाँस उत्पादन के मामले में देशभर में विख्यात हैं। साथ ही वन्य-प्राणियों के संरक्षण के मामले में भी अग्रणी राज्य बन गया है। सर्वाधिक 526 बाघों की उपस्थिति से प्रदेश को "बाघ राज्य" का गौरव हासिल है। देश में सर्वाधिक 3421 तेन्दुए, 2 हजार घड़ियाल और 772 भेडियों की मौजूदगी पर्यटकों के लिए आकर्षण का केन्द्र है।

Dakhal News

Dakhal News 20 April 2022


bhopal, MP Cases of candidates ,teacher eligibility test

भोपाल। स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) और सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री इंदर सिंह परमार ने बताया कि शिक्षक पात्रता परीक्षा 2018 में उच्च माध्यमिक शिक्षक एवं माध्यमिक शिक्षक की भर्ती के दौरान दस्तावेज सत्यापन में कुछ प्रकरण अमान्य किए गए थे। अमान्य प्रकरणों के विरुद्ध प्रावधिक रुप से चयनित और प्रतीक्षारत अभ्यर्थियों से प्राप्त अभ्यावेदनों के निराकरण के लिए समिति गठित की गई थी। समिति से प्राप्त सुझावों और अनुशंसाओं पर गंभीर चिंतन मनन कर स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा अभ्यर्थियों के हित में महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं।   स्कूल शिक्षा मंत्री परमार ने मंगलवार को बताया, शिक्षक पात्रता परीक्षा 2018 में एक सत्र में दो उपाधि से संबंधित प्रकरणों में निर्णय लिया गया है कि एक डिग्री स्वाध्यायी, पत्राचार,/ दूरस्थ शिक्षा के माध्यम से तथा दूसरी डिग्री नियमित होने की स्थिति में अभ्यर्थिता मान्य की जाएगी। इसके अलावा दोनों डिग्री स्वाध्यायी, पत्राचार, दूरस्थ शिक्षा के माध्यम से होने की स्थिति में अभ्यर्थी की अभ्यर्थिता मान्य की जाएगी। साथ ही परीक्षा में एटीकेटी के कारण एक सत्र में दो नियमित डिग्रीयाँ अर्जित होना परिलक्षित हो रहा है, किन्तु ऐसी स्थिति, एटीकेटी की अंकसूची में अंकित सत्र/वर्ष के कारण हो रही है, तो ऐसे प्रकरणों में भी अभ्यर्थिता मान्य होगी।   उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालयों के द्वारा सत्र विलम्ब से सम्पन्न होने या सत्र शून्य घोषित होने के कारण परीक्षा विलम्ब से सम्पन्न होने की स्थिति में दो नियमित डिग्री के एक ही वर्ष में दर्शित होने की स्थिति में प्रकरणवार विचार कर गुण-दोष के आधार पर निर्णय लेने के लिए नियुक्तिकर्ता अधिकारी को अधिकृत किया गया है। अन्य कोई प्रकरण उदभूत होने पर नियुक्तिकर्ता अधिकारी गुण-दोष के आधार पर निर्णय कर सकेंगे।   मंत्री परमार ने बताया कि हाईस्कूल या उच्च माध्यमिक विद्यालय में अध्यापन कार्य हेतु नियोजित किये जाने वाले उच्च माध्यमिक शिक्षक की पात्रता परीक्षा विषयवार होगी। पात्रता परीक्षा हिन्दी, अंग्रेजी, संस्कृत, उर्दू गणित, जीवविज्ञान (वनस्पति विज्ञान / प्राणी विज्ञान), भौतिक शास्त्र, रसायन शास्त्र, इतिहास, राजनीति शास्त्र, अर्थशास्त्र, भूगोल, समाज शास्त्र, कृषि, वाणिज्य एवं गृह विज्ञान विषय में आयोजित होगी। आवेदक को संबंधित विषय में स्नातकोत्तर उपाधि नियम में उल्लेखित प्रावधान अनुसार धारित करना अनिवार्य होगा। इसके अतिरिक्त परिशिष्ट 5 में उल्लेखित विषयों के सहविषय में स्नातकोत्तर योग्यता इस शर्त के साथ मान्य होगी कि संबंधित द्वारा स्नातक स्तर पर विज्ञापित मूल विषय में योग्यता अर्जित की हो।   निर्णय के अनुसार अब माध्यमिक शिक्षक (अंग्रेजी) पद के लिए केवल उन अभ्यर्थियों की अभ्यर्थिता मान्य होगी जिनका स्नातक स्तर पर एक मुख्य विषय अंग्रेजी होगा। फाउंडेशन कोर्स अथवा सामान्य अंग्रेजी के स्नातक स्तर में होने के आधार पर अभ्यर्थिता मान्य नहीं होगी।

Dakhal News

Dakhal News 19 April 2022


bhopal, Bulldozer Mama , native version , English Raj, Ajay Singh

भोपाल। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा कि बुलडोजर मामा अंग्रेजी राज का देशी संस्करण है। पूरा मध्यप्रदेश पूछ रहा है कि अंग्रेजों का रॉलेट एक्ट तो उसी जमाने में खत्म हो गया था जिसमें न अपील, न दलील और न वकील होता था। यह दोबारा कब लागू हो गया? बिना जांच के कई बेगुनाहों के घर बिना किसी कानूनी आधार पर क्यों तोड़े जा रहे हैं? क्या मध्यप्रदेश की जनता अंग्रेजों के बाद भाजपा सरकार की गुलाम है। सरकार ने एक दिन में किस तकनीक से जांच कर ली और खरगोन में 90 मकान गिरा दिए गये। अजय सिंह ने मंगलवार को एक बयान जारी कर कहा कि बुलडोजर के नाम से बेगुनाहों को हटाया जा रहा है। कोई सरकारी जमीन पर अतिक्रमण कर ले और वह तोड़ा जाए तो समझ में आता है, लेकिन जो परिवार मकानों में रह रहे हैं और जिनकी कोई गलती नहीं है उन्हें शिवराज सरकार क्यों प्रताडि़त कर रही है? यह समझ से परे है। योगी की नक़ल करते हुए शिवराजसिंह अति उत्साह में जो बुलडोजर चला रहे हैं, वह उनको उल्टा पड़ेगा।   पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि दूर क्यों जाएँ, भोपाल के आसपास सरकार के रसूखदार लोग बड़े बड़े अतिक्रमण कर रहे हैं। इनके मकान क्यों नहीं तोड़े जा रहे हैं? बलात्कार की धमकी देने वाले खुले आम घूम रहे हैं और बेगुनाहों के घर बेदर्दी तोड़े जा रहे हैं। क्या देश में कोई न्यायपालिका है या फिर भाजपा नेता ही जज बन चुके हैं। उन्होंने कहा कि मैंने पहले भी सुझाव दिया था कि बुलडोजर चलाने के अलावा और भी विकल्प हैं कि घर तोडऩे के बजाय अपराध सिद्ध होने तक आरोपी के घर को सरकार राजसात कर लेद्य क्या घर तोडऩे पर अपराध कम हो जायेंगेद्य बल्कि बेगुनाह सडक़ पर आ जायेंगे।   अजय सिंह ने सरकार से पूछा है कि फि़ल्मी स्टाइल में अपराधियों में डर बैठाने के नाम पर अगर एक भी बेगुनाह के साथ अन्याय होता है तो क्या वह अपराध नहीं होगा? शिवराज सिंह को इस बात पर धैर्य के साथ विचार करना चाहिए न कि योगी की नकल। ऐसे में तो कानून एक मजाक बन कर रह जाएगा। उन्होंने सीएम शिवराज सिंह से मांग की है कि अभी तक जितने मकान तोड़े गये हैं, मुख्यमंत्री इनकी सूक्ष्मता से जांच करवाएं और जो बेगुनाह परिवार प्रताडि़त हुए है, उन्हें अपना मकान दोबारा बनाने के लिए सरकार मुआवजा दे।

Dakhal News

Dakhal News 19 April 2022


bhopal, Chief Minister Chouhan, planted saplings

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को राजधानी भोपाल के स्मार्ट सिटी उद्यान में हेल्पिंग हेंड्स संस्था के प्रवीण प्रेमचंदानी, भारती जैन, कोमल प्रेमचंदानी तथा कीर्ति मिश्रा के साथ हरसिंगार और करंज का पौधा लगाया।   मुख्यमंत्री ने कहा कि युवाओं का पौधरोपण के प्रति समर्पण उज्जवल भविष्य के शुभ संकेत हैं। बता दें कि संस्था पर्यावरण-संरक्षण एवं स्वच्छता के लिए कार्य कर रही है। साथ ही ब्लड डोनेशन केंप, खाद्य सामग्री का वितरण, बच्चों को कपड़े आदि देने का कार्य भी किया जा रहा है। कोरोना काल में भी संस्था ने भोजन के पैकेट, ऑक्सीजन सिलेंडर, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, दवाइयाँ, हॉस्पिटल में बेड आदि उपलब्ध करवाने का कार्य किया।   गौरतलब है कि हरसिंगार के पौधे को पारिजात भी कहा जाता है, जो उत्तम औषधि भी है। करंज का इस्तेमाल धार्मिक कार्यों में भी किया जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 19 April 2022


bhopal, Jamiat Ulema-e-Hind ,challenged ,bulldozer action, Supreme Court

भोपाल। मध्यप्रदेश के खरगोन में रामनवमी पर हुई सांप्रदायिक हिंसा के बाद जिला प्रशासन द्वारा की गई बुलडोजर चलाने की कार्रवाई को उलेमा-ए-हिन्द ने चुनौती दी है। संगठन ने मध्य प्रदेश के साथ-साथ यूपी और गुजरात में मुसलमानों की संपत्तियों पर बुलडोजर चलाने की कार्रवाई को मुस्लिम वर्ग को निशाना बनाने की साजिश बताया है।   जमीयत उलेमा-ए-हिन्द ने तीनों राज्यों में हुई बुलडोजर कार्रवाई के खिलाफ सोमवार को उच्चतम न्यायालय में याचिका दायर की है। याचिका में शीर्ष अदालत से राज्यों के यह आदेश देने का अनुरोध किया गया है कि अदालत की अनुमति के बिना किसी के घर या दुकान को गिराया नहीं जाएगा। याचिका में केन्द्र सरकार के साथ भाजपा शासित मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश और गुजरात सरकार को पार्टी बनाया गया है।   खरगोन में 10 अप्रैल को रामनवमी पर हुई हिंसा के बाद जिला प्रशासन ने अवैध संपत्तियों के खिलाफ अभियान चलाया था। जिसके तहत शहर के चार स्थानों पर बुलडोजर चलाकर कुल 16 घर और 29 दुकानें ध्वस्त की गईं। इसमें से 12 घर खसखासवाड़ी इलाके में थे। हिंसा करने के आरोप में 140 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार भी किया गया। जिसके बाद मुस्लिम संगठन ने उच्चतम न्यायालय में याचिका दाखिल की है।   जानकारी के अनुसार, जमीयत उलेमा-ए-हिन्द ने मामले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सीनियर एडवोकेट कपिल सिब्बल से सलाह लेने के बाद यह याचिका एडवोकेट सरीम नावेद से तैयार करवाई है। इसे एडवोकेट कबीर दीक्षित ने ऑनलाइन दायर किया है। इसमें जमीयत उलेमा ए हिंद कानूनी इमदाद कमेटी के सचिव गुलजार अहमद आजमी वादी बने हैं। याचिकाकर्ता ने शीर्ष अदालत से अनुरोध किया है कि सरकारों द्वारा इस तरह के उपाय हमारे देश की आपराधिक न्याय प्रणाली को कमजोर करते हैं। इस तरह की घटनाओं से अदालतों की भूमिका को नकारने की कोशिश है। इसे रोकने के लिए तत्काल कार्रवाई की आवश्यकता है।   जमीयत उलमा-ए-हिंद के चीफ अरशद मदनी ने ट्वीट के माध्यम से याचिका दायर करने की जानकारी मीडिया को दी। उन्होंने कहा कि देशभर में धार्मिक उग्रवाद और नफरत का माहौल व्याप्त है। अल्पसंख्यकों, खासकर मुसलमानों को डराने-धमकाने की साजिशें रची जा रही हैं। देशभर में धार्मिक उग्रवाद और नफरत का माहौल व्याप्त हो गया है। लेकिन केंद्र और राज्य सरकारें खामोश हैं।   मदनी के मुताबिक याचिका में अदालत से राज्यों को आदेश देने के लिए कहा गया है कि कोर्ट की अनुमति के बिना किसी के घर या दुकान को ध्वस्त ना करें। उत्तरप्रदेश में बुलडोजर की राजनीति पहले से ही चल रही है, लेकिन अब यह नापाक हरकत गुजरात और मध्यप्रदेश में भी शुरू हो गई है। मदनी ने आरोप लगाते हुए कहा कि मध्यप्रदेश के खरगोन शहर में रामनवमी के अवसर पर एक जुलूस के दौरान अत्यधिक भड़काऊ नारे लगाकर हिंसा शुरू की गई। इसके बाद राज्य सरकार के आदेश पर मुसलमानों के घरों और दुकानों पर बुलडोजर चलाया गया। उन्होंने कहा कि मुस्लिम मोहल्लों में मस्जिदों के बिल्कुल सामने आकर उकसाया जा रहा है। पुलिस की मौजूदगी में लाठी-डंडे लहराकर नारे लगाए जा रहे हैं और सब मूकदर्शक बने हुए हैं।

Dakhal News

Dakhal News 18 April 2022


indore, High Court stayed, order of termination

इंदौर। मध्य प्रदेश तीन हजार से ज्यादा आयुष डाक्टरों को सोमवार को मप्र उच्च न्यायालय ने बड़ी राहत दी है। उच्च न्यायालय ने उनकी सेवा समाप्ति के राज्य सरकार के आदेश पर रोक लगा दी है। वहीं, राज्य शासन ने इस मामले में छह सप्ताह में जवाब तलब किया है।   उल्लेखनीय है कि कोरोना महामारी के दौर में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) के तहत राज्य शासन ने प्रदेश में तीन हजार से अधिक आयुष चिकित्सको संविदा नियुक्ति पर रखा था। इन डाक्टरों के वेतन के रूप में हर माह 25 हजार रुपये का भुगतान किया जा रहा था। हाल ही में 31 मार्च को इन सभी आयुष डाक्टरों की सेवाएं शासन ने यह कहते हुए समाप्त कर दी थीं कि फंड नहीं है।   शासन के सेवा समाप्ति के आदेश को चुनौती देते हुए आयुष डाक्टरों ने मप्र उच्च न्यायालय की इंदौर खंडपीठ के समक्ष याचिका दायर की थी। उनका कहना है कि हमने कोविड काल में अपनी जान दांव पर लगाकर सेवा दी है। सरकार एक तरफ कह रही है कि फंड समाप्त हो गया है दूसरी तरफ आयुष डाक्टरों की जरूरत बताकर हाल ही में विज्ञापन जारी किया गया है। इस तरह से सरकार दोहरा मापदंड अपना रही है। सोमवार को न्यायमूर्ति प्रणय वर्मा के समक्ष मामले की सुनवाई हुई। अदालत ने याचिकाकर्ताओं के तर्क सुनने के बाद शासन द्वारा 31 मार्च को जारी आदेश पर रोक लगा दी। कोर्ट ने शासन से इस मामले में छह सप्ताह में जवाब मांगा है।   याचिकाकर्ताओं के अधिवक्ता आरके पाठक ने बताया कि उच्च न्यायालय ने आयुष डाक्टरों की सेवा समाप्ति के आदेश पर रोक लगाते हुए फिलहाल उनकी सेवा जारी रखने को कहा है। कोर्ट ने शासन से छह सप्ताह में इस मामले में जवाब मांगा है। पाठक के मुताबिक कोर्ट के इस आदेश का फायदा प्रदेश के सभी आयुष डाक्टरों को मिलेगा जिनकी नियुक्ति राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत कोविड काल में हुई थी।

Dakhal News

Dakhal News 18 April 2022


bhopal, Wheat of Madhya Pradesh , exported , Food Minister

भोपाल। प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने बताया कि मिस्र (इजिप्ट) की शासकीय उपार्जन संस्था द्वारा भारत के गेहूँ के आयात को मान्यता प्रदान की है। खाद्य मंत्री सोमवार को वर्ष 2021-22 एवं 2022-23 में अप्रैल माह तक मध्यप्रदेश से गेहूँ निर्यात की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने बताया कि प्रदेश में गुणवत्तापूर्ण गेहूँ की बम्पर पैदावार के बाद अनेक देशों में गेहूँ का निर्यात किया गया, जिससे विदेशी राजस्व की भी प्राप्ति हुई1   460 करोड़ रुपये के गेहूँ का हुआ निर्यात खाद्य मंत्री सिंह ने बताया कि वर्ष 2021-22 एवं 2022-23 में 15 अप्रैल तक 2 लाख 4 हजार 771 मीट्रिक टन गेहूँ का विदेशों में निर्यात किया गया। इसमें इंदौर, जबलपुर, उज्जैन, हरदा, छिंदवाड़ा और दतिया से बांग्लादेश, इंडोनेशिया, श्रीलंका, यू.ए.ई., विएतनाम को गेहूँ निर्यात किया गया। जबकि भोपाल, गुना, टीकमगढ़, मुरैना, ग्वालियर और अन्य जिलों से इजिप्ट, फिलीपींस, जिम्बाब्वे एवं तंजानिया में गेहूँ निर्यात की पर्याप्त संभावनाएँ हैं।   उन्होंने बताया कि गेंहूँ के निर्यात से लगभग 460 करोड़ 08 लाख रुपये का विदेशी राजस्व भी प्राप्त हुआ है। इस अवधि में सर्वाधिक गेहूँ इंदौर से 97 हजार 887 मी.टन एवं अन्य कुछ जिलों से न्यूनतम 3 हजार 370 मी. टन निर्यात किया गया। उन्होंने बताया कि कांडला, मुंदरा, न्हावा शेवा, विशाखापटनम, बांग्लादेश बॉर्डर बंदरगाहों के माध्यम से गेहूँ का निर्यात किया गया।   विगत एक माह में प्रदेश से निर्यात गेहूँ मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने बताया कि विगत एक माह में मध्यप्रदेश से देश के विभिन्न 8 स्थानों पर गेहूँ के 87 रेक भेजे गए। इनमें गांधी धाम में 17, कांडला में 16, मुंदरा में 08,खारी रोहर में 10, ध्रुब में 09, शिरवा में 08, विशाखापटनम में 09 और काकीनाडा में 10 रैक भेजे गए, जिससे 2 लाख 43 हजार 600 मीट्रिक टन गेहूँ निर्यात किया गया। इसके अलावा 2,116 से 59 लाख 24 हजार 800 मीट्रिक टन गेहूँ भेजा जाना है।   उल्लेखनीय है कि मंत्रि-परिषद द्वारा लिए निर्णय के बाद निर्यातकों के पंजीयन हेतु ऑनलाईन पोर्टल प्रारंभ किया गया है। आगामी तीन दिनों में निर्यात डेशबोर्ड भी प्रारंभ हो जाएगा। निर्यातक एक्सपोर्ट हेल्पलाइन नंबर 18002333474 पर अपना विवरण दर्ज करा सकते हैं। इसके अलावा दक्षिण अफ्रीका, मोजाम्बिक एवं जिम्बाब्बे के आयोजकों को लागत पत्रक भी प्रेषित किये जा चुके हैं।   27.24 लाख मीट्रिक टन रबी फसलों का पंजीयन खाद्य मंत्री सिंह ने बताया कि रबी उपार्जन में 27 लाख 24 हजार 999 मीट्रिक टन रबी फसलों के लिए पंजीयन कराया गया, जिसमें गेहूँ 19 लाख 81 हजार 506, चना 4 लाख 57 हजार 680, मसूर एक लाख 14 हजार 876 एवं एक लाख 70 हजार 937 मीट्रिक टन सरसों फसल के लिए पंजीयन शामिल है। यह पंजीयन 5017 उपार्जन केन्द्रों पर कराया गया।   1.85 लाख कृषकों ने कराया पंजीयन खाद्य मंत्री ने बताया कि प्रदेश के एक लाख 85 हजार 366 कृषकों ने अपनी फसलों के विक्रय के लिए पंजीयन कराया है। इसमें से एक लाख 70 हजार 48 किसानों ने गेंहूँ, 15 हजार 318 किसानों ने चना विक्रय के लिए पंजीयन कराया।

Dakhal News

Dakhal News 18 April 2022


bhopal,BJP state president ,expressed grief

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा एवं प्रदेश संगठन महामंत्री हितानंद ने जम्मू कश्मीर में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में वीरगति को प्राप्त हुए मध्यप्रदेश के आगर मालवा के वीर सपूत अरूण शर्मा के निधन पर शोक व्यक्त किया है।   भाजपा प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि जम्मू कश्मीर में तैनात मां भारती की सेवा करते हुए आतंकवाद के विरूद्ध सेना के वीर अरूण शर्मा का यह सर्वोच्च बलिदान व्यर्थ नहीं जायेगा। ईश्वर शहीद अरूण शर्मा की आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दें और शोक संतप्त परिवार को संबल प्रदान करें।   बता दें कि शनिवार को जम्मू कश्मीर में आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान भारतीय सेना के जवान अरुण शर्मा शहीद हो गए थे। रविवार देर रात उनका पार्थिव शरीर अपने गृह ग्राम आगरमालवा जिले के कानड़ पहुंचेगा, जहां सोमवार को सैन्य सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार होगा।

Dakhal News

Dakhal News 17 April 2022


bhopal, BJP declared, state officials , teachers cell

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा एवं प्रदेश संगठन महामंत्री हितानंद की सहमति से स्थानीय निकाय प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक नरेन्द्र सिंह राजपूत ने और शिक्षक प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक डॉ. नितेश शर्मा ने प्रकोष्ठ के प्रदेश सह संयोजक एवं पदाधिकारियों की घोषणा की है। स्थानीय निकाय प्रकोष्ठ के प्रदेश सह संयोजकों में जौधासिंह अठवाल भोपाल, स्वाति गोडबोले जबलपुर, जितेन्द्र सिंह चौहान रीवा, शालीनी सरावगी शहडोल, सोनू गेहलोत उज्जैन, संतोष सिंह ठाकुर सागर, विवेक पालीवाल ग्वालियर, रामकरण भांवर इंदौर, शम्भुसिंह भाटी नर्मदापुरम एवं मुकेश जाटव चबंल शामिल है। नवीन शर्मा भोपाल को कार्यालय मंत्री घोषित किया है। इसी तरह शिक्षक प्रकोष्ठ के प्रदेश सह संयोजकों में प्रो. प्रदीप श्रीवास्तव इंदौर, अजय जागरी उज्जैन, विक्रम सिकरवार चंबल, डॉ. अनिल श्रीवास्तव ग्वालियर, राजीव अवस्थी रीवा, डॉ. अशोक अहिरवार सागर, डॉ. हेमंत महाला भोपाल, प्रो. बसंत राजपूत नर्मदापुरम, डॉ. अमित साहू जबलपुर एवं डॉ. सविता सोनी शहडोल शामिल हैं। डॉ. आकांक्षा दुबे नर्मदापुरम को कार्यालय प्रमुख एवं कमलेश राय ग्वालियर को सोशल मीडिया प्रभारी घोषित किया है।

Dakhal News

Dakhal News 17 April 2022


bhopal, CPI(M) accuses ,Shivraj government ,communal polarization

भोपाल। खरगोन में हुई सांप्रदायिक हिंसा को लेकर मध्य प्रदेश में जमकर राजनीति हो रही है। इस मामले को लेकर दिग्विजय सिंह समेत कांग्रेस के नेता जहां सरकार को कठघरे में खड़ा करने का प्रयास कर रहे हैं, तो वहीं अब मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) भी मैदान में कूद गई है। खरगोन हिंसा को लेकर माकपा ने शिवराज सरकार पर सांप्रदायिक ध्रुवीकरण पैदा कर सत्ता में बने रहने का आरोप लगाया है।   पार्टी के राज्य सचिव जसविंदर सिंह ने रविवार को जारी बयान में कहा है कि साम्प्रदायिक तनाव के सात दिन बाद भी जन प्रतिनिधियों, राजनीतिक नेताओं, सामाजिक कार्यकर्ताओं को खरगोन जाने और प्रभावित पक्षों से बात करने से रोका जा रहा है। यह सिर्फ प्रशासन और सरकार की तानाशाहीपूर्ण हरकतों का ही प्रमाण नहीं है, बल्कि यह भी साफ होता है कि सरकार अपने अपराधों को छिपाने की कोशिश कर रही है।   उन्होंने कहा कि सरकार ने यदि निष्पक्षता और पारदर्शी ढंग से विवाद को नियंत्रित करने की कोशिश की है तो फिर वह जनप्रतिनिधियों को खरगोन जाने से क्यों रोक रही है?   माकपा नेता ने आरोप लगाते हुए कहा कि खरगोन जाने वाले लोग समाज के जिम्मेदार नागरिक हैं, जो वहां पहुंचकर प्रभावितों से मिलकर समाज में अविश्वास की खाई को खत्म करने की कोशिश करेंगे, लेकिन शिवराज सिंह चौहान सरकार की दिलचस्पी शांति या साम्प्रदायिक सौहार्द स्थापित करना नहीं, बल्कि साम्प्रदायिक ध्रुवीकरण पैदा कर सत्ता को बनाए रखने में है। उन्होंने प्रदेश के सभी धर्मनिरपेक्ष दलों, सामाजिक संगठनों से एकजुट होकर शिवराज सरकार की साम्प्रदायिक ध्रुवीकरण करने की साजिशों को नाकाम करने की अपील की है।

Dakhal News

Dakhal News 17 April 2022


chindwara,Kamal Nath ,offered prayers

छिंदवाड़ा। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शनिवार को हनुमान जयंती के मौके पर छिंदवाड़ा जिला मुख्यालय से 18 किमी दूर ग्राम सिमरिया में स्थित सिद्ध सिमरिया हनुमान मंदिर पहुंचकर पूजा-अर्चना की। मंदिर पहुंचने के उपरांत उन्होंने सर्वप्रथम, प्रथम पूज्य श्री गणेश भगवान की पूजा की और मंदिर के गर्भगृह में स्थापित अन्य मूर्तियों की पूजा-अर्चना की।   कमलनाथ ने मंदिर में भगवान शिव का रुद्राभिषेक किया। बनारस से आए आचार्यों व पंडितों ने मंत्रोचार के साथ विधि विधान के साथ रुद्राभिषेक, पूजा अर्चना व आरती कमलनाथ के हाथों पूर्ण करवाई। पूजा-अर्चना के उपरांत मंदिर परिसर में आकर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने संकट मोचन हनुमान जी महाराज को दोनों हाथ जोड़कर प्रणाम किया। मंदिर में पूजा करने पहुंचे श्रद्धालु भक्तों से पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भेंट की।   इसके बाद उन्होंने मीडिया द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब में कहा कि भगवान संकट मोचन हनुमान जी का आज जन्मोत्सव पर पूजा पाठ कर देश प्रदेश और अपने छिंदवाड़ा जिले की सुख शांति के लिए कामना की। उन्होंने कहा कि हमारे देश की संस्कृति जोडऩे की है। दिल जोडऩे की है, संस्कृति को जोडऩे की है। हम सभ्यता, संस्कृति और अध्यात्म के गुरु कहे जाने वाले भारत देश के निवासी है हम जोडऩे पर विश्वास रखते हैं।   अध्यात्म की शक्ति से है देश की पहचान- पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मीडिया के सवाल के प्रत्युत्तर में कहा कि हमारे देश की पहचान अध्यात्म की शक्ति से न की सैन्य शक्ति से है। भारत पूरे विश्व में अध्यात्मिक शक्ति में श्रेष्ठ है और पूरा विश्व भारत को अध्यात्म का पुंज मानता है। अध्यात्म की शक्ति से सभी को जुड़कर रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि भगवान संकट मोचन हनुमान जी महाराज से आज कामना की है कि देश, प्रदेश और मेरे अपने छिंदवाड़ा जिले पर कोई संकट न आए सभी हंसी सुखी और हर्षोल्लास से रहे यही ईश्वर से प्रार्थना है।   जय हनुमान के जयकारों के साथ निकाली विशाल गदा यात्रा प्रसिद्ध सिद्धेश्वर हनुमान मंदिर सिमरिया में अर्पित की जाने वाली विशाल गदा का पूर्व मुख्यमंत्री हनुमान भक्त कमलनाथ ने स्थानीय छोटी बाजार राम मंदिर परिसर में पूर्व पूर्ण विधि विधान से पूजन किया। गदा यात्रा के रवाना होने से पूर्व श्री कमलनाथ ने मंदिर स्थित राम दरबार, बड़ी माता माई की पूजा अर्चना करने के उपरांत चौबे बाबा व व्यास पीठ पहुंचकर नमन किया।   स्थानीय छोटी बाजार से प्रारंभ हुई यह विशाल गदा यात्रा दोपहिया वाहन से श्री राम मंदिर छोटी बाजार छिंदवाड़ा से पूजन अर्चन के उपरांत प्रारंभ हुई, जो मेन रोड, श्री मन्ना महाराज के सामने, गोल गंज, फव्वारा चौक, अनगढ़ हनुमान मंदिर, राजीव भवन, पुराना नागपुर नाका, चंदन नगर, सर्रा, ईमलीखेड़ा, लिंगा, गोरेघाट, सरोरा हेटी, चिखली से सिमरिया मंदिर में गदा अर्पण के साथ पूर्ण हुई। इस गदा यात्रा में नगर एवं जिले के हजारों हनुमान भक्तों ने पूर्ण उल्लास के साथ अपनी सहभागिता दी। पैदल व दुपहिया वाहनों में सवार इस गदा यात्रा में सम्मिलित भक्तों का स्थान-स्थान पर नागरिकजन ने अभिनंदन किया।   चमत्कारी हनुमान मंदिर जाम सांवली पहुंचे कमलनाथ पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने श्री हनुमान जन्मोत्सव पर छिंदवाड़ा सिमरिया स्थिति सिद्धेश्वर हनुमान जी के दर्शन के उपरांत जामसांवली मंदिर पहुंचकर चमत्कारी श्री हनुमान जी की पूजा अर्चना कर सम्पूर्ण भक्ति भाव से महावीर की आरती। विश्व प्रसिद्ध लेटे हुए हनुमान जी की पूजा के उपरांत पूर्व मुख्यमंत्री ने जामसांवली मंदिर कमेटी के पदाधिकारी व सदस्यों से सौजन्य भेंट कर और श्री हनुमान जन्मोत्सव की बधाई दी तथा मंदिर में चल रहे निर्माण कार्यों की जानकारी भी ली। हनुमान दर्शन के लिए प्रस्थान करते समय कमलनाथ ने सम्पूर्ण मार्ग में मस्त हुनमान भक्तों का अभिवादन किया। इस अवसर पर मंदिर परिसर में जिला कांग्रेस अध्यक्ष विश्वनाथ ओक्टे, राजेन्द्र यमदे, अनिल ठाकरे, अतुल जुनूनकर, पंकज दातरकर, अमरीश जायसवाल, हंसराज बारस्कर सहित अन्य श्रद्धालु उपस्थित रहे।

Dakhal News

Dakhal News 16 April 2022


gwalior, Government schemes , being given with respect, Energy Minister Tomar

ग्वालियर। अंतिम पंक्ति के अंतिम व्यक्ति को शासन की योजनाओं का लाभ मिले, यही मेरा प्रयास रहता है। क्षेत्र के सभी पात्र हितग्राहियों को सम्मान के साथ शासन की योजनाओं का लाभ दिलाया जा रहा है। यह बात प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने शनिवार को ग्वालियर में अपने शासकीय कार्यालय पर उपनगर ग्वालियर के पात्र हितग्राहियों को राशन की पात्रता पर्ची, हाथठेला, कामकाजी, पेंशन के स्वीकृती पत्र वितरित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की मंशानुसार आपकी समस्या के निराकरण के लिए आपके क्षेत्र में केंप आयोजित कर समस्याओं का निराकरण किया जा रहा है।   उन्होंने कहा कि जब से आपका सेवक आया है तब से 15 हजार से अधिक परिवारों को राशन की पात्रता पर्ची दी जा चुकी है। आगे भी पात्र हितग्राहियों को राशन की पात्रता पर्ची दी जायेंगी। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि किसी जरूरत मंद की सेवा से बड़ा कोई कार्य नहीं होता है।     इस अवसर पर ऊर्जा मंत्री तोमर ने वार्ड 7,8,11,12,15,16 एवं 17 के हाथठेला व कामकाजी 153, राशन की पात्रता पर्ची 330 व पेंशन 51 एवं आयुष्मान के 13 पात्र हितग्राहियों को मिलाकर कुल 547 कार्ड वितरित किये। इसके साथ ही कार्यालय पर आमजन अपनी-अपनी समस्यायें लेकर आये तो उनकी समस्या ऊर्जा मंत्री ने बारी बारी से सुनी और उनके निराकरण के लिए संबंधित अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि कार्यालय पर आने वाली समस्याओं का निराकरण समय सीमा में किया जाए। इस कार्य में लापरवारी बर्दाश्त नहीं की जायेगी।     ऊर्जा मंत्री ने विद्युत बिल माफी के वितरित किये प्रमाण पत्र   ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने शनिवार को शिंदे की छावनी हॉकर्स जोन में विद्युत बिल माफी के प्रमाण पत्र वितरित किये। ऊर्जा मंत्री के हाथों विद्युत बिल माफी का प्रमाण पत्र पाकर क्षेत्र के निवासियों का चहरा खुशी से खिल उठा। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि जरूरत मंद की सेवा करना ही मेरा उद्धेश्य रहा है। वह मैं हमेशा करता रहूंगा। मैं आपका सेवक कल था, आज भी सेवक हूं एवं कल भी आपका सेवका रहूंगा। आपकी सेवा इसी प्रकार करता रहूंगा।     तोमर ने शिंदे की छावनी के 3143 उपभोक्ताओं के 2 करोड़ 39 लाख रूपये एवं लक्ष्मीगंज जोन के 2101 उपभोक्ताओं के 1 करोड 69 लाख रूपये के विद्युत बिल माफी के प्रमाण पत्र दिये। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना-2022 के तहत विद्युत उपभोक्ताओं के 31 अगस्त 2020 तक के एक किलोवाट के विद्युत बिल माफ किये गए हैं।     उन्होंने कहा कि कोरोना काल में गरीब वर्ग को काफी कठिनाइयों का सामना करना पडा था। उस समय भी मैने आपकी हर संभव मदद की थी। फिर भी मेरे आग्रह पर कोरोना काल के विद्युत बिल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी ने माफ किये हैं। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही इस क्षेत्र के नागरिकों की सुविधा के लिये संजीवनी क्लीनिक खोली जा रही है, जहां आपको छोटी-छोटी बीमारियो का इलाज निशुल्क मिल सकेगा। इसके साथ ही कहा कि 4 करोड की लागत से गेंडे वाली सडक को स्मार्ट सडक बनाया जाएगा।

Dakhal News

Dakhal News 16 April 2022


bhopal,CM Shivraj ,planted Gulmohar and Pink Cassia

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने प्रतिदिन पौधरोपण करने के संकल्प के क्रम में शनिवार को राजधानी भोपाल के श्यामला हिल्स स्थित स्मार्ट उद्यान में भारती संस्था के पदाधिकारियों अमर गायकवाड़, संजय सिंह और भारती सिंह के साथ गुलमोहर और पिंक केसिया के पौधे लगाए। संस्था पर्यावरण-संरक्षण और शिक्षा के क्षेत्र में कार्य करती है।   उल्लेखनीय है कि आज लगाए गए गुलमोहर को विश्व के सुंदरतम वृक्षों में से एक माना जाता है। यह औषधीय गुणों से भी समृद्ध है। पिंक केसिया की छाल और पत्तियों का उपयोग आयुर्वेदिक दवाएँ बनाने में किया जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 16 April 2022


ujjain,Higher Education Minister , seminar ,Sanskrit Festival

उज्जैन। प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव एवं शालेय शिक्षा राज्यमंत्री इंदरसिंह परमार ने शुक्रवार को अपराह्न में भारत माता मन्दिर के सभाकक्ष में तीन दिवसीय संस्कृत महोत्सव पर अखिल भारतीय गोष्ठी का उद्घाटन किया। इस अवसर पर उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव ने कहा कि संस्कृत ने भारत ही नहीं, अपितु विश्व में अपनी यात्रा का प्रकाश फैलाया है। संस्कृत भाषा हमारी देवभाषा है।   उन्होंने कहा कि आदिकाल से अवंतिका नगरी का विश्व में नाम रहा है। दुनिया में प्राचीन नगरी उज्जयिनी होने के साथ-साथ सांस्कृतिक नगरी की पहचान आदिकाल से है। उज्जैन में दुनिया को ज्ञान दिलाया है, जहां भगवान श्रीकृष्ण ने सांदीपनि आश्रम में शिक्षा ग्रहण कर शिक्षा का प्रकाश फैलाया।   उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव ने कहा कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में नये-नये आयाम जोड़े हैं। संस्कृत को प्रोत्साहन मिले। दुनिया में संस्कृत को अपनी पहचान बनाना है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति में भारतीय भाषाओं के साथ संस्कृत की ओर भी ध्यान दिया गया है। अनेक स्थलों पर बहुभाषिता, भारतीय भाषाओं में साहित्य सृजन एवं अनुवाद को प्रोत्साहन की चर्चा भी राष्ट्रीय शिक्षा नीति में है। संस्कृत हमारी देवभाषा है, इसलिये संस्कृत के ज्ञान को जन-जन तक पहुंचाने का हम सब मिलकर काम करें।   इस अवसर पर स्कूल शिक्षा राज्यमंत्री इंदरसिंह परमार ने कहा कि संस्कृत जैसी महत्वपूर्ण भाषा पर हमारे देश में व्यापक इसका विस्तार हो। सरकार इसमें बढ़-चढ़कर अपना योगदान दे रही है। नई राष्ट्रीय नीति में वृहद पैमाने पर नवीन विषयों को जोड़ा गया है। उन्होंने कहा कि सांदीपनि आश्रम के आसपास जमीन को तलाशा जा रहा है, ताकि उस क्षेत्र में संस्कृत विद्यालय खोला जा सके। योग से निरोग के तहत स्कूलों में योग क्लब बनाये गये हैं। योग व्यायाम भी छात्रों से कराये जा रहे हैं। शैक्षणिक गतिविधियां ठीक ढंग से संचालित हो, इसका हरसंभव प्रयास किया जा रहा है।   श्री रामानुज कोट के आचार्य स्वामी रंगनाथाचार्य महाराज ने अपने विचार प्रकट करते हुए कहा कि संस्कृत भाषा हमारी देववाणी भाषा है। आध्यात्मिक जीवन में प्रवेश करना है तो संस्कृत भाषा का ज्ञान होना आवश्यक है। शिक्षा विभाग में संस्कृत को बढ़ावा देने के उद्देश्य से विद्यार्थियों को पढ़ाने के लिये संस्कृत के शिक्षकों की भर्ती की जा रही है, वह अभिनन्दनीय है।   उन्होंने कहा कि भगवान महाकाल की पावन धरा पर हजारों साल पहले भगवान श्रीकृष्ण ने अपने भाई बलराम और सखा सुदामा के साथ सांदीपनि आश्रम में विद्याध्ययन करने आये थे। शिक्षा का महत्व पूर्व में भी था और आज भी है, परन्तु हमें हमारी हिन्दी भाषा के साथ-साथ संस्कृत भाषा का ज्ञान भी जन-जन में होना आवश्यक है। मानव जीवन में व्यक्ति को संस्कृत का ज्ञान आवश्यक है। संस्कृत बहुत बड़ी भाषा है।   इस अवसर पर संस्कृत के अखिल भारतीय अध्यक्ष आचार्य गोपबंधु मिश्र, पतंजलि संस्कृत संस्थान के अध्यक्ष भरत बैरागी ने भी अपने महत्वपूर्ण विचार रखते हुए देश में संस्कृत को बढ़ावा देने के उद्देश्य से जन-जन में संस्कृत भाषा को सीखने पर जोर दिया। कार्यक्रम के प्रारम्भ में अतिथियों ने दीप-दीपन कर कार्यक्रम की शुरूआत की। गोष्ठी में देश के प्रख्यात विद्वजन आदि उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 15 April 2022


bhopal, Chief Minister Chouhan, pays tribute

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को सिख धर्म के पंचम गुरू अर्जुन देव जी की जयंती पर उन्हें नमन किया। मुख्यमंत्री चौहान ने अपने निवास सभाकक्ष में उनके चित्र पर पुष्प अर्पित किए। उन्होंने गुरू अर्जुन देव के योगदान का स्मरण भी किया।   मुख्यमंत्री चौहान ने ट्वीट करते हुए कहा कि "जगत के कल्याण एवं धर्म की उन्नति हेतु अपना जीवन अर्पित कर देने वाले सिखों के आठवें गुरु, श्रद्धेय श्री गुरु हरकिशन साहिब जी के ज्योति ज्योत दिवस पर चरणों में नमन्! आपकी शिक्षाएं सदैव मानवता के कल्याण के पथ को आलोकित करती रहेंगी।"

Dakhal News

Dakhal News 15 April 2022


chatarpur, Farmers , adopt natural farming, pure grains , healthy body,Agriculture Minister

छतरपुर। कृषि मंत्री एवं किसान नेता कमल पटेल ने कहा है कि प्राकृतिक खेती को प्रदेश में बढ़ाने के लिए सरकार कृत संकल्पित है। इसी दिशा में प्राकृतिक कृषि बोर्ड का गठन किया जा रहा है। मैं प्रदेश के किसानों से अपील करता हूं कि शुद्ध अनाज के साथ स्वस्थ शरीर के लिए आधा एकड़, एक एकड़ मे प्राकृतिक खेती शुरू करें। छतरपुर में शुक्रवार को मीडिया से बातचीत करते हुए कृषि मंत्री पटेल ने कहा कि मध्यप्रदेश में गांव- गरीब और किसानों की सरकार है। यह मैं इसलिए कह रहा हूं क्योंकि कांग्रेस के शासनकाल में किसानों से 13 क्विंटल सरसों और 15 क्विंटल चना प्रति हेक्टेयर खरीदा जाता था लेकिन जैसे ही हमारी सरकार आई हमारी भाजपा सरकार ने 20-20 क्विंटल प्रति हेक्टेयर खरीदने के आदेश दिए। दूसरी ओर इन फसलों की खरीदी मई माह में होती थी। जिससे किसानों को उनकी फसल का उचित मूल्य नहीं मिल पाता था। किसान औने-पौने दामों में फसल बेच देता था। हमने इसे गंभीर चूक मानते हुए फसल की खरीदी मार्च माह से कर दी। जिससे किसानों को उनकी फसल का अच्छा मूल्य मिल रहा है। मंत्री पटेल ने कहा कि हमारी सरकार ने किसानों के लिए एक और ऐतिहासिक फैसला लिया है। पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार के समय प्रतिदिन, प्रति किसान से 25 क्विंटल चना खरीदने की लिमिट थी। जिसे हमारी सरकार ने 40 क्विंटल प्रतिदिन, प्रति किसान से खरीदने के आदेश दिए हैं। इससे किसानों को फसल का मूल्य समर्थन मूल्य से भी ऊपर मिल रहा है।

Dakhal News

Dakhal News 15 April 2022


morena, Gandhi , leave Satyadharma , Narendra Singh Tomar

जौरा/मुरैना। तमाम अपमान, विरोध और उपहास के बाद भी गांधी जी ने जीवन में सत्यधर्म का पालन किया और सत्यधर्म नहीं छोड़ा। भौतिक शरीर से बहुत सारे काम किये जाते हैं इसके साथ एक आत्मिक ताकत होती है और यही आध्यात्मिक ताकत व्यक्ति को सर्वमान्य और महान बनाती है। उनके षिष्य जयप्रकाश नारायण के नेतृत्व में चम्बल में बागी आत्मसमर्पण का होना प्रेरणादायक घटना है और इसमें भाई जी डा.एस.एन. सुब्बराव का कार्य बहुत महत्वपूर्ण रहा। उक्त उद्गार बागी आत्मसमर्पण समारोह में केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कही। केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि बाबा साहेब भीम राव अम्बेडकर को याद करते हुए कहा कि तमाम सामाजिक बुराईयां जातिगत भेदभाव को सहने के बाद भी डा. अम्बेडकर ने निष्पक्षता के साथ बिना किसी पूर्वाग्रह के पूरे देश को संचालित करने के लिए संविधान लिखा। उनके जीवन से महान कार्य करने की प्रेरणा मिलती है। केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि चम्बल के भिंड और मुरैना की पहचान बागीयों और उनके कार्यो से नकारात्मक रहा है। चम्बल की अच्छाईयों को रेखांकित करते हुए उन्होने कहा कि चम्बल में ककनमठ और मितावली के साथ डाल्फिन, घडियाल पार्क और खेत-खलिहान भी है। उन्होने जिला प्रशासन से देश भर से आये नवजवानों को चम्बल विषेषकर शहीद रामप्रसाद विस्मिल संग्रहालय का भ्रमण कराने की व्यवस्था करने के लिए भी कहा जिससे नवजवान चम्बल की सकारात्मक छवि को लेकर जायें। प्रख्यात गांधीवादी और एकता परिषद के संस्थापक राजगोपाल पी.व्ही ने सभी आगन्तुकों का स्वागत करते हुए कहा कि चम्बल की घटना से देष व दुनिया में शांति व अहिंसा का संदेष गया। चम्बल की स्मृति से दुनिया को अहिंसा का संदेष जाना चाहिए। समाजवादी चिंतक और पूर्व सांसद रघु ठाकुर ने कहा कि न्याय व शांति के लिए गांधी के तीन सूत्र ‘चलो शहर से गांव की ओर’, ‘बडे से छोटे की ओर’ तथा ‘मशीन से हाथ की ओर’ पर काम करने की आवश्यक्ता है। चम्बल में शिक्षा और रोजगार पर काम करना न्याय व शांति के लिए जरूरी है। प्रख्यात समाजशास्त्री, अध्येता व जवाहर लाल विश्वविद्यालय के पूर्व प्रोफेसर आनंद कुमार ने कहा कि साम्प्रदायिक एकता के हजार सूत्र देने वाले शंकराचार्यो, मौलवियों और राजनेताओं के होने के बाद भी रामनवमी, होली और ईद के दिन देश में दंगा-फसाद होना चिंता का विषय है इसे जड़ से मिटाने का रास्ता केवल गांधीवाद में है। गांधी का रास्ता है-तीज त्यौहार में अपने-अपने टोल-मोहल्ले में जाकर एक दूसरे को बधाइंया देना और भाईचारा बढाना है। उन्होने कहा कि दंगा फसाद संसद और विधानसभा में नहीं होता बल्कि टोले और मुहल्ले में होता है इसलिए उसका रास्ता भी वहीं है। सांसद डा विकास महात्मने ने अपने उद्बोधन में देश के राजनैतिक परिदृश्य में पारदर्षिता लाने के लिए चुनाव प्रक्रिया एवं प्रणाली में व्यापक सुधार की आवष्यक्ता पर बल दिया। समाजवादी चिंतक रामप्रताप ने कहा कि चम्बल का विकास पर्यावरणीय पर्यटन, शिक्षा एवं स्वावलम्बन पर ही निर्भर जिसमें युवाओं की सक्रिय भागीदारी करानी होगी। कार्यक्रम के दौरान एक्षन विलेज इण्डिया एवं जय जगत के अंतराष्ट्रीय प्रतिनिधियों क्रमष: सुश्री एस्टर (इग्लैण्ड) व श्रीमती जिल कार हैरिस (कनाडा) ने भी अपने विचार व्यक्त कर शांति संदेश दिया। भाई जी की मूर्ति का अनावरण - केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने भाई जी की समाधि स्थल पर पुष्पांजलि देकर श्रद्वांजलि अर्पित की तदोपरांत आश्रम परिसर में भाई जी डा.एस.एन. सुब्बराव की मूर्ति का अनावरण किया। समारोह में शामिल आत्मसमर्पित बागी - 70 के दशक के चम्बल के बागी सरगना सरू सिंह, माधो सिंह, मोहर सिंह, माखन-छिद्वा, हरबिलास सिंह व राजस्थान के रामसिंह गिरोह के सदस्य रहे आत्मसमर्पित बागी मानसिंह, मेहरबान सिंह, गंगा सिंह, संतोष सिंह, उम्मेद सिंह, रामभरोसी, घमण्डी सिंह, बूटा सिंह, अजमेर सिंह यादव, बहादुर सिंह कुशवाहा, सोबरन सिंह, सोनेराम, रामस्वरूप सिकरवार, तथा 80 के दशक के आत्मसमर्पित दस्यु रमेश सिंह सिकरवार, बाबू सिंह, प्रभु सिंह और राजस्थान आत्मसमर्पित महिला बागी कपूरी बाई समारोह में शामिल हुए। सभी आत्मसमर्पित बागियों को सम्मानित किया गया। भाई जी संस्कार पुरस्कार 2022 - डा.एस.एन सुब्बराव (भाई जी) के नाम से सामाजिक कार्य के लिए दिया जाने वाला पुरस्कार आंध्रप्रदेश के के.यादव राजू, तमिलनाडु के करूनाकरण और महाराष्ट्र के नरेन्द्र बडगांवकर को प्रदान किया गया। इसमें उनको स्मृति चिन्ह, अंगवस्त्रम् सहित संयुक्त रूप से एक लाख की धनराशि दी गयी। ज्ञात हो कि चम्बल घाटी में वर्ष 1970 में 14 अप्रैल को लोक नायक जयप्रकाष नारायण के समक्ष चम्बल के कुख्यात और दुर्दान्त बागियों ने गांधी जी के चित्र के समक्ष जौरा स्थित पुराने गांधी आश्रम में अपने हथियार डालकर समर्पण कर दिये थे। उनके समर्पण और पुनर्वास में डा.एस.एन सुब्बराव ने महत्वपूर्ण भूमिका निभायी थी। इस वर्ष बागी आत्मसमर्पण के 50 वर्ष पूरे होने पर महात्मा गांधी सेवा आश्रम व एकता परिषद द्वारा इसका आयोजन किया गया

Dakhal News

Dakhal News 14 April 2022


Chhindwara, Kamal Nath ,came ,four-day stay

छिंदवाड़ा। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का गुरुवार को अपने चार दिवसीय प्रवास पर छिंदवाड़ा आगमन हुआ। स्थानीय ईमलीखेड़ा हवाई पट्टी पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं, विधायकों, कांग्रेस कार्यकर्ताओं व आमजन ने उनकी अगवानी की।   इस अवसर पर हवाई पट्टी पर उपस्थित पत्रकार बंधुओं के प्रश्नों का उत्तर देते हुए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि मैं सबसे पहले महान मानवतावादी, संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अम्बेडकर जी को नमन करता हूं, उन्हें प्रणाम करता हूं। बाबा साहब ने हमारे देश के लिए एक ऐसा संविधान बनाया है जिसमें सभी जाति, धर्म और सभी वर्ग के लोग समाहित है। समाज के उत्थान व सुरक्षा को दृष्टि में रखते हुए बनाये गये इस संविधान के प्रति मैं मानवता बाबा साहेब को उनकी जयंती पर हृदय से नमन करता हूं।   कमलनाथ ने आगे बताया कि बाबा साहब अम्बेडकर की जन्मस्थली महू से छिंदवाड़ा आये हैं। मेरे मन में कई दिनों से यह इच्छा थी कि बाबा साहेब की देश की सबसे बड़ी प्रतिमा मप्र में स्थापित हो इसके लिए वे सभी का सहयोग लेंगे और सभी को जोड़ेंगे। उन्होंने कहा, हमने संकल्प लिया है कि बाबा साहेब की सबसे बड़ी प्रतिमा शीघ्र ही भोपाल में स्थापित होगी।   प्रदेश में घटित हो रहे विभिन्न घटनाक्रमों व खरगौन घटना पर पूछे गये सवाल के जवाब में कमलनाथ ने कहा कि आज प्रदेश में जो अत्याचार हो रहे हैं वह अत्यंत दुखद है। भाजपा के पास पैसा, पुलिस और प्रशासन है और इसके दम पर आम नागरिकों पर झूठे व फर्जी केस व बनावटी कार्यवाही की जा रही है। इस प्रशासनिक अत्याचार के विरुद्ध हमने एक समिति बनाई है और जांच के बाद हम समुचित कार्यवाही करेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 14 April 2022


bhopal,  Congress government, decision, Kamal Patel

भोपाल/हरदा। पूर्ववर्ती केंद्र की मनमोहन कांग्रेस सरकार का एक फैसला किसानों को अपनी ही फसल को बेचने मे कई परेशानियां पैदा करता था। कांग्रेस सरकार ने रबी फसल जिसमें चना प्रमुख है, एक किसान से एक दिन में पच्चीस क्विंटल ही चना किसान बेच सकता था, लेकिन मध्यप्रदेश के कृषि मंत्री एवं किसान नेता कमल पटेल की मेहनत एवं प्रयासों से मध्यप्रदेश में पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार का फैसला लागू नहीं होगा। अब रबी वर्ष 2021-22 (विपणन वर्ष 2022- 23) के अंतर्गत चना फसल प्रतिदिन प्रति किसान 40 क्विंटल चना एक बार में बेच सकता है। कृषि मंत्री पटेल की इसी मेहनत और प्रयासों पर मध्यप्रदेश के किसान उन्हें वीडियो और फोन कॉल कर बधाइयां दे रहे हैं। इस फैसले के बारे में कृषि मंत्री कमल पटेल का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मंशा है कि किसान की आय दोगुना और चारगुना हो। इसी दिशा में चना की लिमिट को बढ़ाया गया है। पटेल कहते हैं कि प्रधानमंत्री मोदी, केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और मैं स्वयं यानी हम सब मिलकर प्रदेश में खेती को घाटे का नहीं बल्कि लाभ का धंधा बनाना चाहते हैं ताकि किसान के चेहरे कमल की तरह खिलते रहे।

Dakhal News

Dakhal News 14 April 2022


bhopal, meeting , Group of Ministers ,Minister Dr. Mishra.

भोपाल। मध्यप्रदेश की आबकारी नीति को प्रभावी बनाने के लिये मंत्री समूह की बैठक बुधवार को मंत्रालय में गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा की अध्यक्षता में हुई।   बैठक में आबकारी नीति 2022-23 को सशक्त बनाने के लिये विभिन्न बिन्दुओं पर विचार-विमर्श हुआ। बैठक में आबकारी मंत्री जगदीश देवड़ा, वन मंत्री कुँवर विजय शाह और अन्य उच्चाधिकारी मौजूद रहे।

Dakhal News

Dakhal News 13 April 2022


ujjain,  Higher education minister, addresses workshop

उज्जैन। भोपाल के कुशाभाऊ ठाकरे इंटरनेशनल कंवेंशन सेन्टर से बुधवार को प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देने के उद्देश्य से शून्य बजट आधारित कृषि पद्धति पर कार्यशाला का आयोजन किया गया, जिसमें वर्चुअली गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत एवं मप्र के राज्यपाल मंगुभाई पटेल एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सम्बोधित किया। उज्जैन कृषि उपज मंडी से किसानों को उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने भी संबोधित किया। उन्होंने कहा कि रासायनिक खाद का उपयोग कम से कम जैविक खेती अधिक से अधिक की जाए।   डॉ. यादव ने कहा कि बढ़ती हुई जनसंख्या के साथ भोजन की आपूर्ति के लिये हम लोगों के द्वारा खाद्य उत्पादन की होड़ में अधिक से अधिक उत्पादन प्राप्त करने के लिये तरह-तरह के रासायनिक खादों, जहरीले कीटनाशकों का उपयोग करते चले जा रहे हैं। किसानों के जीवन के साथ-साथ उनकी खेती में जितना बदलाव लाया जा सकेगा, उतना सरकार लेकर आयेगी।   उन्होंने कहा कि पुराने समय में प्राकृतिक एवं जैविक खेती होती थी, जिससे हमारे जीवन के साथ-साथ खानपान से जीवन स्वस्थ रहता था, परन्तु अधिक रासायनिक खाद खेतों में डालकर हमारे जीवन में जहर-सा घुल रहा है। किसानों से कहा कि हमारे खेती के रकबे में धीरे-धीरे जैविक एवं प्राकृतिक खेती की ओर मुड़ना चाहिये।   डॉ. यादव ने कहा कि कृषि में तरह-तरह की रासायनिक खादों व कीटनाशकों का प्रयोग हो रहा है, जिसके फलस्वरूप जैविक और अजैविक पदार्थों के बीच आदान-प्रदान के चक्र को प्रभावित करता है, जिससे भूमि की उर्वरा शक्ति खराब हो रही है और वातावरण प्रदूषित होने के साथ मनुष्यों के स्वास्य्द में गिरावट आ रही है। रासायनिक खादों एवं जहरीले कीटनाशकों के उपयोग के स्थान पर जैविक खादों प्राकृतिक खेती करने से अधिक से अधिक उत्पादन प्राप्त कर सकते हैं। जिससे भूमि, जल एवं वातावरण शुद्ध रहेगा और मनुष्य तथा प्रत्येक जीवधारी भी स्वस्थ रहेंगे।   किसानों को सम्बोधित करते हुए पूर्व कृषि उपज मंडी अध्यक्ष बहादुरसिंह बोरमुंडला, रामसिंह बड़ाल, केशरसिंह पटेल ने कहा कि किसान भाई अपने कृषि रकबे में से शुरूआत में कुछ रकबे में जैविक एवं प्राकृतिक खेती करें। इससे किसानों को लाभ होगा। किसान खेतों में कम से कम रासायनिक खाद का उपयोग करें और जैविक खेती से खेती को अधिक लाभ का धंधा बनायें। रासायनिक खाद का उपयोग करने से कई गंभीर बीमारियां हो रही है जो घातक है।   कृषि उप संचालक आरपीएस नायक ने शून्य बजट प्राकृतिक खेती का संक्षिप्त विवरण देते हुए कहा कि जीरो बजट खेती का मतलब है कि किसान खेती में कोई भी राशि अतिरिक्त खर्च न करे। किसान जो भी फसल उगाये उसमें कोई भी रासायनिक कीटनाशक, उर्वरक, अन्य रसायनों का उपयोग न हो। जीरो बजट खेती एक तरह से प्राकृतिक एवं जैविक खेती के लिये प्रेरित स्वयं एवं दूसरे किसानों को भी करें। जीरो बजट प्राकृतिक खेती देशी गाय के गोबर एवं गोमूत्र पर आधारित है। देशी गाय के गोबर से एक एकड़ जमीन पर जीरो बजट खेती किसान कर सकते हैं।   उन्होंने बताया कि प्राकृतिक खेती कृषि की प्राचीन पद्धति है। यह भूमि के प्राकृतिक स्वरूप को बनाये रखती है। प्राकृतिक खेती में फसल अवशेष, गोबर की खाद, कम्पोस्ट खाद, जीवाणु खाद प्राकृतिक रूप से प्रकृति में उपलब्ध खनिज, रॉक फास्फेट, जिप्सम एवं कीटनाशक के रूप में नीम की पत्ती आदि का उपयोग किया जाता है।   नायक ने बताया कि प्राकृतिक खेती से भूमि की जलधारण क्षमता में वृद्धि, कार्बनिक तत्व बनने से भूमि की उर्वरकता में वृद्धि, मिट्टी की गुणवत्ता में सुधार होने के साथ-साथ रासायनिक खादों की बचत, फसल लागत में कमी और बाजार में जैविक उत्पादन की मांग होने से किसानों की आय में वृद्धि होगी।   भोपाल से कार्यशाला को राज्यपालद्वय एवं मुख्यमंत्री के सम्बोधन के साथ ही केद्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्रसिंह तोमर, प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम के प्रारम्भ में उज्जैन कृषि उपज मंडी में उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव सहित अन्य अतिथियों ने भगवान बलराम के चित्र पर माल्यार्पण कर चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया।

Dakhal News

Dakhal News 13 April 2022


bhopal, national and moral responsibility , Amrit Mahotsav ,Usha Thakur

भोपाल। मध्य प्रदेश की पर्यटन, संस्कृति और धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री उषा ठाकुर ने कहा कि जिन्हें स्वाधीनता संग्राम में भाग लेने का मौका नहीं मिला, उन्हें आजादी के अमृत महोत्सव में सहभागिता का सौभाग्य प्राप्त हो रहा है। यह अमृत महोत्सव क्रांतिकारियों को याद करने और उनके जीवन चरित्र से प्रेरणा लेने का अनूठा अवसर है। अमृत महोत्सव को सफलता के चरम पर ले जाने के प्रयास करना सभी देशवासियों का नैतिक और राष्ट्रीय दायित्व है।   मंत्री उषा ठाकुर ने मंगलवार को नई दिल्ली के अशोक होटल में आयोजित संस्कृति एवं पर्यटन मंत्रियों के दो-दिवसीय सम्मेलन “अमृत समागम" को संबोधित कर रही थीं। मंत्री उषा ठाकुर ने सम्मेलन सम्मेलन के द्वितीय-सत्र 'राज्यों की पहल और भागीदारी' को संबोधित करते हुए कहा कि 'हर घर झंडा' अभियान और अंतरराष्ट्रीय योग दिवस जैसे कार्यक्रमों में शत-प्रतिशत सहभागिता दर्ज कर देशवासी स्वाधीनता संग्राम सेनानियों के प्रति अपनी श्रद्धांजलि अर्पित कर सकते हैं।     मंत्री उषा ठाकुर ने आजादी के अमृत महोत्सव में मध्यप्रदेश द्वारा किए गए उल्लेखनीय प्रयोगों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अपने विधानसभा क्षेत्र में सभी 248 विद्यालयों का नामकरण विभिन्न क्रांतिकारियों के नाम पर किया है, जिससे विद्यार्थी इन क्रांतिकारियों से जुड़ सकें। उन्होंने बताया कि नागरिकों को अपने-अपने घरों की बैठकों में किसी एक क्रांतिकारी के चित्र लगाने की पहल भी मध्यप्रदेश में की गई है, जिससे आगंतुकों के साथ भावी पीढ़ी में राष्ट्रीयता का भाव भरा जा सके।     उल्लेखनीय है कि सम्मेलन का उद्घाटन केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने किया। केंद्रीय संस्कृति और पर्यटन मंत्री जी. किशन रेड्डी, संस्कृति राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल और मीनाक्षी लेखी सहित अन्य राज्यों के संस्कृति और पर्यटन मंत्री और वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। सम्मेलन में मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड की अपर प्रबंध संचालक शिल्पा गुप्ता भी उपस्थित रही।

Dakhal News

Dakhal News 12 April 2022


bhopal,BJP delegation, reached crime branch ,Digvijay Singh

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के एक प्रतिनिधिमंडल ने मंगलवार को भोपाल के एमपी नगर स्थित क्राइम ब्रांच थाना पहुंचकर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह द्वारा धार्मिक उन्माद फैलाने की साजिश को लेकर शिकायत करते हुए एफआईआर दर्ज कर कठोर कार्यवाही करने की मांग की।   भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने क्राइम ब्रांच को दी शिकायत में कहा है कि खरगौन घटना को लेकर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने ट्वीट के माध्यम से जिस भाषा का उपयोग किया है, उससे यह प्रतीत होता है कि वे प्रदेश मे अराजकता, धार्मिक उन्माद एवं अस्थिरता का वातावरण फैलाना चाहते है। दिग्विजय सिंह का कृत्य अपराधिक प्रवृत्ति की श्रेणी में आता है। पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा विशेष सम्प्रदाय के धार्मिक स्थल पर झंडा फहराने वाला फोटो ट्वीटर में पोस्ट किया गया है। शांति के टापू कहे जाने वाले मध्यप्रदेश में दिग्विजय सिंह के ट्वीट ने धार्मिक उन्माद और संप्रदाय को भड़काने की कोशिश की है। प्रतिनिधिमंडल ने दिग्विजय सिंह पर धार्मिक एवं साम्प्रदायिक भावनाएं आहत करने के लिए एफआईआर दर्ज कर कठोर कार्यवाही करने की मांग की है।   प्रतिनिधिमंडल में पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष आलोक शर्मा, सीमा सिंह जादौन, प्रदेश मंत्री राहुल कोठारी, विधायक रामेश्वर शर्मा, जिला अध्यक्ष सुमित पचौरी, रविन्द्र यति, किशन सूर्यवंशी, जगदीश यादव, राहुल राजपूत, अश्विनी राय, मनोज राठौर, राजेन्द्र गुप्ता, अजय पाटीदार सहित जिला पदाधिकारी उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 12 April 2022


bhopal, Chief Minister Chouhan, planted plants

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को राजधानी भोपाल के स्मार्ट सिटी पार्क में करंज और सप्तपर्णी का पौधा लगाया। इस दौरान रंग सोशियो कल्चरल सोसायटी की विभा श्रीवास्तव, नेपाल सिंह, मंजुला श्रीवास्तव और राजेश नारायण श्रीवास्तव ने भी पौध-रोपण किया।   बता दें कि रंग सोशियो कल्चरल सोसायटी, भोपाल में पर्यावरण-संरक्षण और स्वच्छता पर कार्य कर रही है। यह संस्था नाटकों के माध्यम से पर्यावरण, स्वच्छता, बेटी बचाओ के संबंध में समाज को जागरूक करने का कार्य करती है। संस्था द्वारा लोगों को पौध-रोपण के लिए निरंतर प्रोत्साहित किया जाता है। संस्था ने भोपाल में 50 से अधिक स्थानों पर पौधा-रोपण के कार्यक्रम किए हैं।   उल्लेखनीय है कि पौधों में करंज, आयुर्वेदिक चिकित्सा में महत्वपूर्ण माना गया है। करंज का उपयोग धार्मिक कार्यों में भी किया जाता है। सप्तपर्णी का पौधा सदाबहार औषधीय वृक्ष है, जिसका आयुर्वेद में बहुत महत्व है। इस पौधे का उपयोग विभिन्न औषधियों के निर्माण में किया जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 12 April 2022


bhopal,Congress formed , five-member committee

भोपाल। खरगोन हिंसा को लेकर कांग्रेस ने पांच सदस्यीय जांच समिति का गठन किया है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ के निर्देश पर जांच समिति गठित की गई है। ये समिति मौके पर जाकर जांच कर रिपोर्ट प्रदेश कांग्रेस को सौंपेगी। प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष एवं संगठन प्रभारी चंद्रप्रभाष शेखर ने बताया कि उक्त जांच समिति में पूर्व मंत्री एवं विधायक सज्जनसिंह वर्मा को अध्यक्ष, पूर्व मंत्री मुकेश नायक, पूर्व मंत्री बाला बच्चन, पूर्व सांसद गजेन्द्र सिंह राजूखेड़ी और मप्र कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष शेख अलीम को समिति का सदस्य बनाया गया है। यह समिति शीघ्र ही घटना स्थल पर पहुंचकर वस्तुस्थिति की जांच कर रिपोर्ट प्रदेश कांग्रेस को प्रस्तुत करेगी।

Dakhal News

Dakhal News 11 April 2022


bhopal, BJP Mahila Morcha , honor Anganwadi workers

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा की प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक सोमवार को प्रदेश कार्यालय प. दीनदयाल परिसर भोपाल में सम्पन्न हुई। बैठक में सामाजिक न्याय पखवाडे के दौरान महिला मोर्चा की भागीदारी को लेकर विस्तार से चर्चा हुई। बैठक में पार्टी की प्रदेश उपाध्यक्ष व महिला मोर्चा प्रभारी सीमा सिंह जादौन ने कहा कि 7 अप्रैल से प्रदेश में सामाजिक न्याय पखवाडे के अंतर्गत महिला मोर्चा को 19 अप्रैल को पोषण अभियान का कार्यक्रम दिया गया है। इस दिन महिला मोर्चा की पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता बहनें प्रत्येक आंगनबाड़ी केन्द्रों में जाकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का सम्मान करेंगी।   उन्होंने बताया कि 19 अप्रैल को मोर्चा की बहनें आंगनबाड़ी के बच्चों को पौष्टिक आहार का वितरण करेंगी। इसके साथ ही प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में आशा कार्यकर्ताओं का भी सम्मान किया जायेगा। प्रदेश में सरकार और संगठन आपसी समन्वय से आंगनबाडी एवं आशा कार्यकर्ताओं के कार्य कर रहे हैं। प्रदेश में आंगनबाडी एवं आशा कार्यकर्ता बहनें भी बहुत अच्छा काम कर रही हैं, इसलिए इनके सम्मान के लिए महिला मोर्चा की अहम भूमिका है। महिला मोर्चा की ओर से शशि यादव को प्रभारी बनाया है। सीमा सिंह ने बताया कि बैठक में 29 अप्रैल को इंदौर में महिला मोर्चा की प्रदेश कार्यसमिति बैठक आयोजित करने का निर्णय लिया है।   बैठक में महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष माया नारोलिया ने कहा कि केंद्र सरकार और राज्य सरकार ने नारी सशक्तिकरण और उनके अच्छे स्वास्थ्य और भलाई के लिए काम किया है। सुपोषण अभियान एक जन आंदोलन है। जिसमें बहुत से सरकारी एवं गैर सरकारी संगठन जुड़कर समाज की भलाई के लिए काम कर रहे हैं। मिशन सुपोषण अभियान में महिला मोर्चा को संगठित होकर कार्य करना है।   बैठक में महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्ष ज्योति दुबे, बबीता परमार, शशि यादव, मीना जोनवाल, प्रदेश महामंत्री माया पटेल, अश्विनी परांजपे, प्रदेश मंत्री शशि पटेल, आशा गुप्ता, वैशाली महाले, ममता भिलवार, कोषाध्यक्ष ममता गुप्ता, सह कोषाध्यक्ष जया शर्मा, कार्यालय मंत्री नंदा दुबे, सह कार्यालय मंत्री नवदीप कौर, सोशल मीडिया प्रभारी डॉ. निशा सक्सेना, सोशल मीडिया सह प्रभारी अपेक्षा शुक्ला, मीडिया प्रभारी नेहा बग्गा एवं सह प्रभारी प्रियांश उरमलिया उपस्थित थी।

Dakhal News

Dakhal News 11 April 2022


bhopal, conserve water together, Agriculture Minister Patel

हरदा/भोपाल। दो साल कोरोना के और डेढ़ वर्ष मध्यप्रदेश में कांग्रेस सरकार के कार्यकाल से बंद जलाभिषेक अभियान प्रदेश में शिवराज सरकार ने पुन: शुरू कर दिया है। प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को रायसेन जिले से इसकी शुरूआत की। वही सूबे के कृषि मंत्री एवं किसान नेता कमल पटेल ने अपने हरदा जिले के गृह ग्राम बारंगा के साथ विधिवत जिले के मगरधा कस्बे से शुरुआत कर दी। हरदा जिले के बारंगा- मगरधा कस्बे में सरकार के द्वारा पुन: शुरू किए गए जलाभिषेक अभियान को लेकर उत्सव का माहौल था। स्थानीय ग्रामीणों ने एक ओर जहां स्थानीय लोकगीतों को ढोल मजीरों के साथ सूबे के मंत्री कमल पटेल की मौजूदगी में खुशियां मनाते हुए गाया, वही छोटी-छोटी कन्याओं ने कलश यात्रा भी निकाली।   जलाभिषेक कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि बिन पानी सब सून की कहावत तो आप सब लोगों ने सुनी होगी, क्योंकि पानी नहीं तो हमारा जीवन ही नहीं। आज की परिस्थितियों में हम सबको मिलकर जल को बचाना होगा। इसी कड़ी में सरकार ने पूरे प्रदेश में स्टॉप डेम बनाने की योजना लागू की है जिससे जल का संरक्षण होगा। हरदा जिले में भी इसकी शुरुआत मगरधा से शुरू हो रही है।

Dakhal News

Dakhal News 11 April 2022


bhopal, CM Shivraj planted , plants in Smart Garden

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने प्रतिदिन पौधरोपण करने के संकल्प के क्रम में रविवार को राजधानी भोपाल स्थित स्मार्ट उद्यान में गुलमोहर और कचनार के पौधे रोपे। मुख्यमंत्री के साथ आशीर्वाद जन-उत्थान सेवा समिति भोपाल की रितिका श्रीवास्तव, वंदना, मधु निगम और अभिनव प्रधान ने भी पौधे लगाए। संस्थागत एक दशक से निर्धन-कल्याण वृक्षा-रोपण और शिक्षा विकास के कार्य कर रही है।   सुंदर वृक्ष गुलमोहर और कचनार करते हैं आकर्षित उल्लेखनीय है कि कचनार सुंदर फूलों वाला वृक्ष है। इसके छोटे और मध्यम ऊँचाई के वृक्ष पूरे भारत में पाए जाते हैं। कचनार औषधीय गुणों से भरपूर है। गुलमोहर को विश्व के सुंदरतम वृक्षों में से एक माना जाता है। पत्तियों के बीच बड़े-बड़े गुच्छों में खिले फूल इस वृक्ष को अलग ही आकर्षण प्रदान करते हैं। गर्मी के दिनों में गुलमोहर के पेड़ पत्तियों की जगह फूलों से लदे रहते हैं। इन्हें देखने से मन को शीतलता का अनुभव होता है। यह औषधीय गुणों से भी समृद्ध हैं।

Dakhal News

Dakhal News 10 April 2022


anuppur, Minister Bisahulal Singh ,worshiped with family

अनूपपुर। प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने नवरात्रि के पावन पर्व पर रविवार को गृह ग्राम स्थित परासी में मां दुर्गा के मंदिर में परिवार के साथ पूजा अर्चना कर प्रदेश की सुख समृद्धि की कामना की। उन्होंने मंदिर परिसर में कन्या पूजन किया और कन्याओं को भोज कराते हुए उनका आशीर्वाद प्राप्त किया। इस अवसर पर विशाल भंडारे का आयोजन किया जिसमें उन्होंने अपने परिवार के साथ प्रसाद ग्रहण किया।   मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने रामनवमी पर्व की प्रदेश एवं जिले वासियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि प्रदेश विकास के पथ पर निरंतर आगे बढ़ रहा हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के मार्गदर्शन में हर क्षेत्र में मध्य प्रदेश देश के अंदर एक अपनी अलग पहचान बना रहा हैं। उन्होंने राम नवमी के अवसर पर प्रदेश के कल्याण की कामना करते हुए सभी को शुभकामनाएं दी।   परासी मंदिर में आयोजित विशाल भंडारे में भाजपा जिला अध्यक्ष बृजेश गौतम, पूर्व जिला अध्यक्ष रामदास पुरी, जिला उपाध्यक्ष सिद्धार्थ सिंह,राम अवध सिंह, जिला मीडिया प्रभारी राजेश सिंह, अशोक लाल, उमेश मिश्रा,राजू गुप्ता, उदय प्रताप सिंह, राकेश गुप्ता, वीरेंद्र सिंह, सिद्धार्थ त्रिवेदी, सुखविंदर सिंह, सुरेश शर्मा, दिवाकर विश्वकर्मा सहित जिले भर से जनप्रतिनिधियों ने मां दुर्गा का आशीर्वाद प्राप्त कर भंडारे का प्रसाद ग्रहण किया।

Dakhal News

Dakhal News 10 April 2022


datia, Dr. Narottam Mishra, met former Chief Minister ,Vansudhara Raje

दतिया। मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने शनिवार को माँ पीताम्बरा पीठ पहुंचकर पूजा अर्चना की और वनखण्ड़ेश्वर महादेव का जलाभिषेक किया।   इस दौरान राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वंसुधरा राजे सिंधिया से भेंट कर 4 मई को माँ पीताम्बरा जन्मोत्सव (दतिया गौरव दिवस) मनाये जाने के संबंध में चर्चा कर आयोजन की जानकारी दी। उन्होंने इस दौरान 4 मई को माँ पीताम्बरा के जन्मोत्सव में भाग लेने का उनसे आग्रह भी किया। इस दौरान प्रदेश के पूर्व मंत्री ध्यानेन्द्र सिंह, पूर्व मंत्री माया सिंह सहित आयोजन समिति के पदाधिकारीगण तथा जनप्रतिनिधि आदि उपस्थित थे। इसके बाद निवास पर जिले के विभिन्न अंचलों से आए लोगों से वन-टू-वन चर्चा कर उनकी समस्याओं को पूरी गंभीरता एवं संवेदनशीलता के साथ सुनते हुए संबधितो को निराकरण के निर्देश दिए।

Dakhal News

Dakhal News 9 April 2022


bhopal, Organization work, Vishnudutt Sharma

उमरिया/भोपाल। किसी भी दल का कार्यालय उस संगठन के कार्यो को गति देने में महत्वपूर्ण स्थान रखता है। भारतीय जनता पार्टी में कार्यकर्ता, कार्य और कार्यालय से संगठन कार्य निचले स्तर तक संचालित होते है। भरौली में बनने वाले जिला कार्यालय से भारतीय जनता पार्टी के कार्य और भी तीव्रगति से संचालित होंगे।   यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने शनिवार को उमरिया के ग्राम भरौली में जिला कार्यालय के भूमिपूजन के अवसर पर कही। इस अवसर पर वरिष्ठ नेता ज्ञान सिंह, प्रदेश सरकार की मंत्री मीना सिंह, रामकिशोर कांवेर, जिलाध्यक्ष दिलीप पाण्डे, विधायक मनीषा सिंह, शिवनारायण सिंह भूमिपूजन कार्यक्रम में उपस्थित थे।   विष्णुदत्त शर्मा शनिवार को डिंडोरी और उमरिया जिले के प्रवास पर थे। शर्मा जबलपुर से डिंडोरी के शाहपुरा होते हुए उमरिया पहुंचे। शाहपुरा मंडल में प्रदेश अध्यक्ष ने जनसंघ के वरिष्ठ कार्यकर्ता श्याम गुप्ता का कमल पुष्प अभियान के अंतर्गत सम्मान किया। उन्होंने कार्यकर्ताओं से भेंट की। शाहपुरा से प्रदेश अध्यक्ष उमरिया के भरौली पहुंचे और जिला कार्यालय के भूमिपूजन कार्यक्रम में शामिल हुए। भरौली पहुंचने पर पार्टी कार्यकर्ताओं और आदिवासी लोक कलाकारों ने सांस्कृतिक नृत्य कर्माशैला एवं लोकगीत के साथ पुष्पवर्षा कर स्वागत किया। प्रदेश अध्यक्ष ने अतिथियों के साथ कन्यापूजन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। भूमिपूजन के पश्चात प्रदेश अध्यक्ष ने कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित किया।   असहाय दीन दुखियों के लिए आश्रम सिद्ध होगा कार्यालय कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि कोरोना जैसी वैश्विक महामारी में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता ने पूरे प्रदेश में सेवा भाव से जनता की सेवा में दिन रात लगे रहे। उमरिया के भरौली में बनने वाला कार्यालय पार्टी कार्यकर्ताओं के लिए ही नहीं बल्कि असहाय दीन, दुखियों के लिए आश्रम सिद्ध होगा। कार्यालय से संगठन कार्य को गति मिलेगी। वहीं हितग्राहियों को योजनाओं का लाभ किस तरह मिले इस बात की चिंता होगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और गृह मंत्री अमित शाह का यह संकल्प है कि देश के प्रत्येक जिले में भारतीय जनता पार्टी का कार्यालय बनें। मध्यप्रदेश का संगठन इस दिशा में आगे बढ रहा है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के नेतृत्व में भाजपा ने गरीबों के जीवन बदलने का जो अभियान प्रारंभ किया है उस अभियान को आगे बढाने में जिला कार्यालय की महत्वपूर्ण भूमिका है। प्रदेश अध्यक्ष ने उमरिया जिले के कार्यकर्ताओं को भरौली में बनने वाले जिला कार्यालय के लिए बधाई दी। हमने गरीबी हटाओ का नारा नहीं, गरीब उत्थान का काम किया शर्मा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी का स्वरूप कार्यकर्ताओं की मेहनत और परिश्रम से बढ रहा है। आज देश के 74 प्रतिशत से अधिक भूभाग पर भाजपा है। उन्होंने कहा कि हमने गरीबी हटाओं का नारा नहीं दिया बल्कि जमीन पर गरीबों के उत्थान के लिए ठोस काम किया है। समाज के अंतिम छोर के बैठे व्यक्ति तक केन्द्र और राज्य सरकार की योजनाएं सुगमता से पहुंच रही है। प्रधानमंत्री मोदी जी के नेतृत्व में प्रधानमंत्री आवास, उज्जवला, आयुष्मान भारत जैसी अनेक योजनाओं से गरीब लाभान्वित हो रहे है। जिसका परिणाम है कि आज भारतीय जनता पार्टी लोकसभा के साथ ही राज्यसभा में भी सर्वाधिक सीटों वाला दल बना है। उन्होंने कहा कि भाजपा देश, जनता और कार्यकर्ताओं के लिए समर्पित पार्टी है जो निरंतर देश के विकास और देशवासियों की उन्नति के लिए कार्य करती है। जिसके फलस्वरूप पार्टी को जनता का निरंतर स्नेह मिलता है। उन्होंने भरी दोपहर में कार्यक्रम में बडी संख्या में शामिल होने वाले कार्यकर्ताओं को धन्यवाद दिया और कहा कि भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता देवदुर्लभ है।

Dakhal News

Dakhal News 9 April 2022


bhopal,. Chief Minister Shivraj, launched , Electricity Bills Relief Scheme

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को कटनी के समीप स्थित स्लीमनाबाद में ‘मुख्यमंत्री बिजली बिलों में राहत योजना 2022‘ का शुभारंभ किया। इस योजना के तहत कोरोना काल के दौरान जमा नहीं किए गए 88 लाख उपभोक्ताओं के 6400 करोड़ रुपये के बिजली बिल माफ करने की घोषणा की गई है। योजना के शुभारंभ अवसर पर मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि कोरोना काल के दौरान लॉकडाउन की विषम परिस्थितियों में आम आदमी की आमदनी प्रभावित हुई है। इस बात को ध्यान में रखकर हमने 88 लाख घरेलू उपभोक्ताओं की 31 अगस्त, 2020 तक की मूल बकाया एवं अधिभार की राशि की वसूली को स्थगित किया गया था। उन्होंने कहा कि प्रदेश अब कोरोना से उबर रहा है और अर्थव्यवस्था सामान्य हो रही है, परंतु स्थगित की गई राशि का भुगतान करने में उपभोक्ताओं को आ रही कठिनाई को देखते हुए राहत देने की दृष्टि से राज्य सरकार ने घरेलू कनेक्शन पर 31 अगस्त 2020 तक की स्थिति में स्थगित भुगतान की राशि को माफ करने का निर्णय लिया है।   उन्होंने कहा कि जिन उपभोक्ताओं ने समाधान योजना 2021 के अंतर्गत स्थगित राशि के विरुद्ध भुगतान किये हैं, उन्हें भी आगामी बिलों में समायोजित किया जा रहा है। इस योजना में प्रदेश के 88 लाख घरेलू उपभोक्ताओं को 6400 करोड़ रुपये की राहत मिलेगी। उन्होंने कहा कि पात्र उपभोक्ता अपने वितरण केन्द्र में आयोजित शिविर में आवेदन देकर ‘‘मुख्यमंत्री बिजली बिलों में राहत योजना 2022‘‘ का लाभ लें। इस मौके पर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने दतिया में आयोजित कार्यक्रम में पात्र उपभोक्ताओं को ‘मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022‘ प्रमाण पत्र वितरित किये। इसी प्रकार भोपाल में चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, गुना में पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री महेन्द्र सिंह सिसौदिया, रायसेन में स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, मंत्री अशोकनगर में खनिज साधन मंत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह, हरदा में कृषि मंत्री कमल पटेल शिवपुरी में राज्यमंत्री सुरेश धाकड़, मुरैना में मप्र ऊर्जा विकास निगम के अध्यक्ष गिर्राज दण्डोतिया एवं अन्य जिलों में क्षेत्रीय विधायकों ने आयोजित कार्यक्रम में पात्र उपभोक्ताओं को ‘‘मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022‘‘ के प्रमाण पत्र वितरित किये। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी कार्यक्षेत्र के भोपाल, नर्मदापुरम्, ग्वालियर एवं चंबल संभाग के अंतर्गत 362 वितरण केन्द्रों पर समारोहपूर्वक कार्यक्रम आयोजित कर शिविर आयोजित किए गए।   मध्यक्षेत्र में पहले दिन ही 18 हजार 587 उपभोक्ताओं को 33 करोड़ 15 लाख से अधिक की राहत मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने कहा है कि राज्य शासन की ‘‘मुख्यमंत्री विद्युत बिलों में राहत योजना 2022‘‘ के अंतर्गत कंपनी ने कार्यक्षेत्र के सभी 16 जिलों में एक साथ कार्यक्रम आयोजित कर पहले दिन ही लगभग 18 हजार 587 उपभोक्ताओं से आवेदन प्राप्त कर 33 करोड़ 15 लाख से अधिक राशि माफ कर प्रमाणपत्र का वितरण किया गया है। ऊर्जा मंत्री तोमर ने एक किलोवाट तक भार वाले पात्र घरेलू उपभोक्ताओं से अपील की है कि वे विद्युत वितरण कंपनी के शिविरों अथवा नजदीकी वितरण केन्द्र में निर्धारित प्रारूप में आवेदन पत्र जमा कर योजना का लाभ लें और "मुख्यमंत्री बिजली बिल में राहत योजना-2022" संबंधी प्रमाण-पत्र प्राप्त करें। कंपनी ने कहा है कि स्थायी रूप से विच्छेदित उपभोक्ताओं को योजना का लाभ लेने एवं पुनः कनेक्शन संयोजित कराने के लिए विद्युत प्रदाय संहिता के प्रावधानों के अनुसार औपचारिकतायें पूर्ण करना अनिवार्य होगा। पात्र उपभोक्ता योजना में मिलने वाले लाभ को एक अप्रैल 2022 के बाद जारी देयकों में देख सकेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 7 April 2022


mandsour,Home Minister, Dr. Mishra

मंदसौर। प्रदेश के गृह एवं जेल मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने गुरुवार को जिले के प्रवास के दौरान खाकी मंदिर कयामपुर पहुंचकर स्वर्गीय वेदांती महाराज की मूर्ति का अभिषेक किया। इसके साथ ही मंदिर में आयोजित हवन एवं प्रसादी कार्यक्रम में शामिल हुए। इस दौरान मंत्री डॉ. मिश्र ने स्वर्गीय वेदांती महाराज के शिष्य की चरण वंदना की तथा उनसे आशीर्वचन लिया।   इस दौरान कलेक्टर गौतम सिंह, पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रियंका मुकेश गिरी गोस्वामी, पूर्व विधायक राधेश्याम पाटीदार, चंदर सिंह सिसोदिया, बड़ी संख्या में भक्तजन, पत्रकार गण मौजूद थे।

Dakhal News

Dakhal News 7 April 2022


bhopal, Minister Sarang, inaugurated , Medical Knowledge

भोपाल। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने कहा कि चिकित्सा शिक्षा क्षेत्र में लगातार नवाचार किये जा रहे हैं। इन नवाचारों की श्रृंखला में एक कदम और बढ़ाते हुए "मेडिकल नॉलेज शेयरिंग मिशन''की शुरूआत की गई है। मिशन से राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर चिकित्सा शिक्षा एवं चिकित्सकीय उपचार की नवीनतम तकनीक, नवाचारों एवं शोध के विभिन्न आयामों को मध्यप्रदेश के चिकित्सकों एवं चिकित्सा छात्रों तक पहुंचाया जायेगा।   मंत्री सारंग ने गुरुवार को मेडिकल नॉलेज शेयरिंग मिशन कार्यालय का शुभारंभ कर बताया कि मिशन में विभिन्न आयामों पर कार्य किया जाएगा। देश-विदेश के विभिन्न चिकित्सा संस्थानों (शासकीय एवं निजी) के साथ शिक्षा, अनुसंधान और उपचार के लिए एमओयू किये जाएंगे। चिकित्सीय छात्रों एवं चिकित्सकों के लिए ट्रेनिंग, कैपेसिटी बिल्डिंग, नॉलेज एक्सचेंज, एक्पोज़र विजिट प्रोग्राम आदि कार्यक्रम तैयार किये जायेंगे। नॉलेज एक्सचेंज इंटरेक्टिव डिजिटल प्लेटफॉर्म विकसित किया जाएगा, जिससे चिकित्सीय छात्र एवं चिकित्सक अपने अनुभव, रिसर्च कार्यों एवं अन्य नवाचारों को एक-दूसरे से डिजिटल रूप से साझा कर सकेंगे।   उन्होंने बताया कि नवीनतम तकनीकों (आर्टिफीशियल इंटेलीजेंस-AI) एवं गूगल तथा माइक्रोसॉफ्ट आधारित आधुनिक सॉफ्टवेयर का उपयोग चिकित्सा शिक्षा और चिकित्सकीय व्यवस्था क्षेत्र में किये जाने पर कार्य किया जाएगा।   नॉलेज शेयरिंग के लिए चिकित्सा संस्थानों के साथ एमओयू सारंग ने बताया कि शासकीय एवं निजी चिकित्सा संस्थानों जैसे शंकर नेत्रालय चैन्नई, टाटा केंसर हॉस्पिटल मुंबई, फोर्टिस गुडगाँव एवं अपोलो हॉस्पिटल के साथ सुपर स्पेशिलिटी शल्य चिकित्सा के क्षेत्र में मेडिकल रोबोटिक्स के उपयोग, चिकित्सा पद्धति और गंभीर बीमारियों के उपचार के लिए चिकित्सकीय एवं शैक्षणिक आदान-प्रदान किया जाएगा। अमेरिका की कोलंबिया यूनिवर्सिटी के साथ बोनमेरो ट्रांसप्लांट एवं एमोरी यूनिवर्सिटी के साथ संक्रामक बीमारियों के उपचार एवं चिकित्सा शोध के लिए एमओयू किया जाएगा। देश एवं विश्व के विभिन्न विधाओं के ख्याति प्राप्त चिकित्सकों द्वारा प्रदेश के मरीजों की जटिल बीमारियों के उपचार के लिए एमओयू किया जाएगा, जिसमें हेल्थ कैंप, चिकित्सा परामर्श सुविधा एवं शल्य चिकित्सा की व्यवस्था चिकित्सा महाविद्यालय के हॉस्पिटल में की जायेगी।   चिकित्सीय छात्रों एवं चिकित्सकों के लिए ट्रेनिंग एवं एक्सचेंज कार्यक्रम मंत्री सारंग ने बताया कि चिकित्सीय छात्रों एवं चिकित्सकों के लिए देश-विदेश में चिकित्सा के क्षेत्र में चल रहे नवाचारों, नवीन चिकित्सकीय विधि-विधाओं एवं चिकित्सकीय शोध आदि विषयों पर ट्रेनिंग एवं कार्यशाला की जाएगी। नॉलेज एक्सचेंज एक्पोज़र प्रोग्राम में शासकीय चिकित्सा महाविद्यालयों के चिकित्सा छात्रों एवं चिकित्सकों को देश-विदेश में नॉलेज एक्सचेंज एक्पोज़र विजिट की व्यवस्था भी होगी। राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर म.प्र. के चिकित्सक एवं चिकित्सीय छात्र सहभागी हो कर अपना साथ दे सकेंगे, जिसके परिणामस्वरूप उनकी क्षमता वृद्धि के लिए विशिष्ट ट्रेनिंग होंगी।   नॉलेज एक्सचेंज डिजिटल प्लेटफार्म सारंग ने बताया कि डिजिटल प्लेटफार्म पर देश-विदेश के चिकित्सक एक साथ होंगे। डिजिटल प्लेटफार्म विकसित कर प्रदेश के चिकित्सकों एवं चिकित्सा छात्रों के साथ ही प्रदेश से चिकित्सा शिक्षा प्राप्त कर देश-विदेश के प्रसिद्ध चिकित्सा संस्थानों में कार्य करने वाले चिकित्सकों को डिजिटल प्लेटफार्म पर रजिस्ट्रेशन कर जोड़ा जाएगा। चिकित्सा क्षेत्र में किये जा रहे शोध कार्यों एवं नवाचारों को डिजिटल प्रकाशित किया जायेगा। नवीनतम चिकित्सकीय तकनीकों एवं विधाओं के संबंध में चर्चा-जानकारी के लिए ब्लॉग, डिस्कशन एवं प्रतियोगिता का प्रावधान होगा। शैक्षणिक गतिविधियाँ एवं संबंधित वीडियो आदि डिजिटल सामग्री डिजिटल प्लेटफार्म, सोशल मीडिया, यू-ट्यूब आदि पर उपलब्ध करायी जायेगी।   नवीनतम चिकित्सा तकनीक को आत्म-सात करना उन्होंने बताया कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस आधारित तकनीक से मरीजों की प्राथमिक स्क्रीनिंग द्वारा जाँच एवं उपचार के क्षेत्र में कार्य किया जाएगा। डियाबेटिक रेटिनोपैथी बीमारी की प्राथमिक स्तर पर ही पहचान की जा सकेगी। गूगल द्वारा तैयार किए गए AI आधारित सॉफ्टवेयर के द्वारा रेटिना स्केन में आँखों में डायबिटीज बीमारी के असर को प्राथमिक स्तर पर ही पहचाना जा सकता है। इससे डायबिटीज के कॉम्प्लिकेशन के रूप में होने वाले अंधत्व को रोकने में सफलता मिलेगी। गूगल एवं शंकर नेत्रालय के संयुक्त सहयोग से AI आधारित जाँच और उपचार को मेडिकल नॉलेज शेयरिंग मिशन के द्वारा प्रदेश के मेडिकल कॉलेजों के चिकित्सा छात्रों एवं चिकित्सकों तक पहुँचाया जा सकेगा। इसके अतिरिक्त AI तकनीक के उपयोग से टीबी, ब्रेन स्ट्रोक, ब्रेन ट्यूमर, दिल की बीमारी, कैंसर जैसे लिवर, प्रोस्ट्रेट, ब्लेडर, पेट के कैंसर, ब्रेस्ट कैंसर, बोन कैंसर एवं थायराइड बीमारी की प्राथमिक स्तर पर पहचान तथा AI आधारित डिजिटल पैथोलॉजी से मरीज़ों की जाँच के आयामों को विकसित किया जाएगा।   मशीन लर्निंग एवं डेटा एनालिटिक्स के आयाम को विकसित किया जाना मंत्री सारंग ने बताया कि मेडिकल कॉलेज के अस्पतालों में मरीजों के जाँच एवं उपचार के डाटा को एकत्रित कर सॉफ्टवेयर आधारित मशीन लर्निंग से जाँच और उपचार के विभिन्न एल्गोरिदम (Algorithm) को तैयार किया जाएगा, जिससे चिकित्सकों एवं चिकित्सा छात्रों को मरीजों के इलाज और उपचार में मदद मिल सकेगी।   वर्चुअल टेक्नोलॉजी आधारित वी.आर. डिवाइसेस से चिकित्सा प्रशिक्षण मंत्री सारंग ने बताया कि चिकित्सा तकनीक के नवीनतम पहलू वर्चुअल टेक्नोलॉजी आधारित वी.आर. डिवाइसेस से चिकित्सा छात्रों को वर्चुअल टेक्नोलॉजी आधारित प्रशिक्षण प्रदान कर वास्तविक चिकित्सीय प्रोसीजर करने के अनुभव के करीब पहुँचने में मदद कर उनके क्लीनिकल डायग्नोसिस एवं सर्जिकल दक्षता को सक्षम किया जा सकेगा।   थ्रीडी प्रिंटिंग का चिकित्सा के क्षेत्र में उपयोग मंत्री सारंग ने बताया कि थ्रीडी प्रिंटिंग के उपयोग से चिकित्सा पेशेवरों और चिकित्सा छात्रों को रोगियों का कई तरीकों से उपचार करने का एक नया रूप प्रदान करना संभव होता है। थ्रीडी प्रिंटिंग के उपयोग से प्रोस्थेसिस के विकास, दाँत, हड्डियों एवं विभिन्न अंगों की विशिष्ट बीमारियों के परिप्रेक्ष्य में प्रतिकृतियों के निर्माण कर शल्य क्रिया में बेहतर चिकित्सा रिजल्ट प्राप्त किया जा सकेगा।   मेडिकल डिवाइस के शोध एवं विकास के लिए इन्क्यूबेशन सेंटर की स्थापना मंत्री सारंग ने बताया कि मेडिकल नॉलेज शेयरिंग मशीन के माध्यम से नवीन मेडिकल डिवाइस के शोध एवं विकास के लिए गांधी मेडिकल कॉलेज में इनक्यूबेशन सेंटर को विकसित किया जाएगा, जिससे चिकित्सकों एवं चिकित्सा छात्रों में नए चिकित्सा उपकरणों को मरीजों की आवश्यकता के अनुसार शोध करने और विकसित करने का अवसर मिल सकेगा।   मेडिकल रोबोटिक्स मंत्री सारंग ने बताया कि शल्य चिकित्सा के क्षेत्र में मेडिकल रोबोटिक्स के उपयोग से सर्जिकल प्रोसीजर में अधिक सटीकता और बेहतर दक्षता मिलती है। मेडिकल रोबोट के अत्यंत महंगे होने के कारण विशेषज्ञ चिकित्सकों एवं चिकित्सा छात्रों को अपने अध्ययन के दौरान रोबोट पर कार्य करने का प्रशिक्षण प्राप्त नहीं हो पाता है। मेडिकल नॉलेज शेयरिंग मिशन से शासकीय एवं निजी क्षेत्र के चिकित्सा के सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के साथ एमओयू कर ऑर्थोपेडिक, यूरोलॉजी, न्यूरो सर्जरी के विभिन्न सर्जिकल प्रोसीजर में मेडिकल रोबोट के उपयोग के लिए ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी।   स्किल डेवलपमेंट मंत्री सारंग ने बताया कि प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में चिकित्सा, नर्सिंग एवं पैरामेडिकल के छात्रों को विशिष्ट ट्रेनिंग देकर उनके कार्य-क्षेत्र में दक्षता प्रदान करने के लिए स्किल डेवलपमेंट कार्यक्रम प्रारंभ किया जाएगा। मेडिकल नॉलेज शेयरिंग मिशन को वैश्विक पटल पर स्थापित करने के उद्देश्य से वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन, यूनिसेफ, विश्व बैंक सहित अंतर्राष्ट्रीय स्तर की संस्थाओं को भी साथ में जोड़ने का प्रयास किया जायेगा।

Dakhal News

Dakhal News 7 April 2022


bhopal, Madhya Pradesh ,tops the country

भोपाल। पशुपालन एवं डेयरी मंत्री प्रेमसिंह पटेल ने कहा है कि राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम में प्रदेश में एक जनवरी से 31 मार्च 2022 तक ब्रूसेल्ला टीकाकरण कार्यक्रम चलाया गया। इसमें 4 से 8 माह की गौ-भैंस वंशीय बछियों का टीकाकरण कराया गया। मध्यप्रदेश ने 17 लाख 41 हजार 970 टीकाकरण की जानकारी ईनॉफ पोर्टल पर दर्ज कराई है, जो राष्ट्र में सर्वाधिक है। इसके अलावा प्रदेश में 2 करोड़ 76 लाख 63 हजार 968 गौ-भैंस वंशीय पशुओं को यूआईडी टैग्स लगाये गये हैं। इनका पंजीकरण भी ईनॉफ पोर्टल पर किया गया है। यह संख्या भी देश में सर्वाधिक है।   उक्त जानकारी देते हुए जनसंपर्क अधिकारी सुनीता दुबे ने बुधवार को बताया कि मंत्री पटेल ने कहा है कि भारत सरकार द्वारा प्रदेश को 22 लाख 55 हजार ब्रुसेल्ला टीका द्रव्य उपलब्ध कराया गया है। देश में राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम के तहत सभी राज्यों में ब्रूसेल्ला टीकाकरण कार्यक्रम क्रियान्वित किया जा रहा है। ब्रुसिलोसिस रोग गौ-भैंस वंशीय पशुओं में प्रजनन संबंधी बीमारी है, जो ब्रुसिलोसिस एबॉर्टस जीवाणु के कारण होती है। रोग के लक्षणों में बुखार, गर्भावस्था के अंतिम चरण में गर्भपात, बाँझपन, हीट में देरी, लेक्टेशन में बाधा आदि से बछियों की हानि और दूध उत्पादन में कमी होती है। 4 से 8 माह की गौ-भैंस वंशीय बछियों का जीवनकाल में एक बार टीकाकरण कर उन्हें ब्रुसिलोसिस रोग से बचाया जा सकता है। यह रोग पशुओं से मनुष्यों में भी फैल जाता है। इस रोग के प्रभाव से पुरूष एवं स्त्रियों में प्रजनन संबंधी समस्या हो सकती है। इस रोग को किसी उपचार के अभाव में टीकाकरण द्वारा ही रोका जा सकता है।

Dakhal News

Dakhal News 6 April 2022


bhopal, Chief Minister Chouhan ,planted saplings

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को राजधानी भोपाल के स्मार्ट सिटी पार्क में आम, करंज और गुलमोहर के पौधे लगाए। इस मौके पर खेल प्रकोष्ठ के संयोजक श्रवण मिश्रा और कोविड-19 काल में मरीजों की सहायता के लिए सक्रिय कोविड पेशेंट हेल्प डेस्क के सदस्यों संतोष कुलस्ते, मिलिंद खरे, विपुल परिहार, अमन राठौर ने भी पौध-रोपण किया।   बता दें कि खेल प्रकोष्ठ, ग्रामीण क्षेत्र में खेल सुविधाओं से वंचित युवाओं को आवश्यक सुविधा तथा प्लेटफार्म उपलब्ध कराता है। मुख्यमंत्री चौहान ने प्रकोष्ठ द्वारा विकसित खेल कैलेंडर का विमोचन किया। खेल कैलेंडर के आधार पर ग्राम से राज्य स्तर तक खेल प्रतियोगिताएं कराने की योजना है। खेल प्रकोष्ठ जल्द ही छात्रावासों की वार्षिक खेलकूद प्रतियोगिता भी करेगा, जिसमें प्रदेश के छात्रावासों में रहने वाले 3 हजार 500 छात्रों को शामिल होने का अवसर मिलेगा। जो उत्कृष्ट खिलाड़ी होगें, उन्हें खेल को केरियर के रूप में अपनाने के लिए सहायता दी जायेगी।   कोविड पेशेंट हेल्प डेस्क के सागर जैन, दिव्या इंद्रा चटर्जी, अभिषेक मकवानी, शैलेन्द्र शर्मा, शिवानी ठाकुर, ऋषभ शर्मा, सोनम, नसीम रज़ा, योगेश मेहता तथा मेघा श्रीवास्तव ने भी पौध-रोपण किया। हेल्प डेस्क द्वारा भोपाल शहर के आसपास 150 से अधिक पौधा-रोपण किए गए हैं। संस्था द्वारा कोरोना काल में रक्तदान, कम्बल, इंजेक्शन, दवाइयां वितरित की गई तथा नि:शुल्क चिकित्सा मार्गदर्शन उपलब्ध कराया गया। मुख्यमंत्री चौहान के सम्मान में डेस्क के साथियों ने “किसी की मुस्कुराहटों पर हो निसार, किसी का दर्द मिल सके, तो ले उधार" गाना समर्पित किया। मुख्यमंत्री चौहान ने भी समूह के साथ यह गाना गुनगुनाया। हेल्प डेस्क द्वारा रक्त दान शिविर का आयोजन भी किया जा रहा है।

Dakhal News

Dakhal News 6 April 2022


bhopal, CPI(M) demands, withdrawal of price hike , DAP, NPK fertilizers

भोपाल। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने हाल ही में इफको द्वारा डीएपी और एनपीके खाद की कीमतों में की गई वृद्धि को वापस लेने की मांग करते हुए केन्द्र सरकार पर निशाना साधा है। पार्टी के राज्य सचिव जसविंदर ने कहा है कि वर्ष 2022 तक किसानों की आमदनी दुगनी करने का वादा करने वाली भाजपा की नरेंद्र मोदी सरकार लगातार किसान विरोधी फैसले ले रही है। ऐसा लगता है कि यह सरकार किसानों से किसान आंदोलन का बदला ले रही है।   माकपा नेता जसविंदर सिंह ने मंगलवार को जारी बयान में कहा कि इफको ने डीएपी और एनपीके की कीमतों मे जबरदस्त वृद्धि कर दी है। इस वृद्धि से डीएपी की 50 किलो का बोरी 1200 रुपये से बढाकर 1350 रुपये में मिल रही है, जबकि एनपीके की 50 किलो की बोरी की कीमत 1290 रुपये से बढ़ाकर 1400 रुपये कर दी है। उन्होंने कहा कि खाद की कीमतों में हुई इस बढ़ोतरी से न केवल खेती की लागत बढ़ेगी, बल्कि पहले ही संकट ग्रस्त कृषि और किसानों की हालत और गंभीर होगी और वे क़र्ज़ के बोझ तले और दब जाएंगे।   जसविंदर सिंह ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2022 तक किसानों की आमदनी दुगनी करने का वादा किया था, मगर हाल ही में संसद में रखी गई जानकारी के अनुसार मध्यप्रदेश सहित पांच राज्यों में किसानों की आय में 25 फीसद तक की गिरावट आई है। अर्थशास्त्रियों के अनुसार यदि इस दौरान मुद्रास्फीति की वृद्धि क़ो आधार बनाया जाए तो देश भर में किसानों की आय बढ़ने की बजाय कम हुई है।   माकपा नेता ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार की नीतियों के विरोध में ही किसानों ने आजादी के बाद का सबसे बड़ा किसान आंदोलन किया था, जिसके बाद सरकार क़ो किसान विरोधी कानून वापस लेने पर मज़बूर होना पड़ा था, किन्तु इसके बाद भी यह सरकार किसान विरोधी नीतियों को जारी रखे हुए है। स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशो क़ो लागू कर किसानों की उनकी फ़सल का वाजिब दाम देने की तो सरकार ने बात करना ही बंद कर दिया है। माकपा ने खाद की बढ़ी हुई कीमतों क़ो तुरंत वापस लेने की मांग करते हुए सभी किसान संगठनों क़ो एकजुट होकर इसका विरोध करने की अपील की है।

Dakhal News

Dakhal News 5 April 2022


guna,MLA Laxman Singh ,protested against, liquor shop

गुना। जिले के कुम्भराज में खुलने वाली नई शराब दुकान के खिलाफ विधायक लक्ष्मण सिंह मुखर हो गए हैं। वह नागरिकों के साथ धरने पर बैठ गए। इस दौरान उन्होंने ठेकेदार के व्यक्तियों पर भी आरोप लगाए। उनके आरोप था कि ठेकेदार के आदमियों से परेशान होकर एक युवती ने सुसाइड तक कर लिया था। वहीं उन्होंने सीएम शिवराज सिंह पर भी निशाना साधते हुए कहा कि अब कहाँ है आपका बुलडोजर। आपके बेटी बचाओ अभियान की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। बता दें कि कुम्भराज में शराब की नई दुकान खोली जा रही है। दो दिन पहले ही विधायक ने अपने कार्यकर्ताओं के साथ दुकान पर पहुंचकर वहां लगे बैनर फाड़ दिए थे। साथ ही दुकान न खोलने की चेतावनी दी थी। इसके बाद शनिवार से शहर कांग्रेस धरने पर बैठ गयी। उन्होंने कहा कि किसी भी कीमत पर दुकान नहीं खुलने देंगे।   युवती ने लगा ली थी फांसी   दो वर्ष पहले शराब दुकान के सामने छेड़खानी के कारण एक युवती की जान चली गयी थी। मामला 2019 का है। पुलिस भर्ती की तैयारी कर रही एक युवती से शराब की दुकान के सामने से गुजरते समय शराबी रोज छेड़खानी करते थे। कई बार शिकायत करने के बाद भी कोई कार्यवाई नहीं हुई थी। रोज-रोज की छेड़खानी से तंग आकर युवती ने सुसाइड कर लिया था।   ठेकेदार के आदमियों पर आरोप   चांचौड़ा विधायक लक्ष्मण सिंह ने युवती की सुसाइड के मामले में शराब ठेकेदार के लोगों पर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि इनके कारण उस युवती ने सुसाइड कर ली थी। हालांकि जिस शराब ठेकेदार के ऊपर आरोप लगाए गए, वह पूर्व सीएम और विधायक लक्ष्मण सिंह के बड़े भाई दिग्विजय सिंह के करीबी माने जाते हैं।

Dakhal News

Dakhal News 4 April 2022


bhopal, Shivraj government, launching good governance report,Congress

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा पेश किये जा रहे सुशासन रिपोर्ट पर तंज कसा है। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश के कुशासन के बारे में प्रदेश की 8 करोड़ जनता भली-भांति जानती है कि किस प्रकार किसान आज खाद-बीज के संकट से परेशान है, खराब फसलों के मुआवजे के लिए परेशान है, फसल बीमा की राशि नहीं मिलने के कारण परेशान है, उसकी उपज का सही मूल्य नहीं मिलने के कारण परेशान है। लगातार किसान कर्ज के दलदल में फसता जा रहा है। किसान आज आत्महत्या के लिए मजबूर हैं।   सलूजा ने सोमवार को कहा कि आज युवा रोजगार को लेकर परेशान हैं, मध्य प्रदेश में पंजीकृत बेरोजगारों का आंकड़ा 30 लाख को पार कर चुका है। आज युवा खुद को ठगा हुआ महसूस कर रहे हैं, क्योंकि शिवराज सरकार ने एक लाख रोजगार प्रतिमाह देने का दावा किया था। वही आज बहन-बेटियों के दुष्कर्म के मामले में मध्यप्रदेश देश में शीर्ष पर है। एनसीआरबी के आंकड़ों में बच्चों के मामले में मध्य प्रदेश को सबसे असुरक्षित राज्य माना गया है। वही आदिवासी व पिछड़े वर्ग के साथ होने वाली दमन व उत्पीडऩ की घटनाओं में भी प्रदेश का नाम देश के शीर्ष राज्यों में शामिल है, इसके गवाह भी एनसीआरबी के आंकड़े हैं। कर्मचारी वर्ग अपनी पुरानी पेंशन बहाली को लेकर सडक़ों पर है पेंशनर अपनी डीए की मांग को लेकर सडक़ों पर हैं, आशा-उषा, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता अपने हक और मानदेय को लेकर सडक़ों पर हैं, चयनित शिक्षक और अतिथि विद्वान अपनी नियुक्ति की मांग को लेकर सडक़ों पर हैं और इनकी मांग को सुनने की बजाय सरकार इनका दमन करने पर उतारू है।   कांग्रेस नेता ने आरोप लगाते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में भ्रष्टाचार अब चरम पर पहुंच चुका है। सारी सरकारी योजनाओं में भ्रष्टाचार सामने आ रहा है। चाहे कन्या विवाह योजना हो, मनरेगा हो, प्रधानमंत्री आवास योजना हो, सभी योजनाओं में भ्रष्टाचार और फर्जीवाड़े सामने आ रहे हैं। लाखों छात्रों के भविष्य को अंधकार की ओर धकेलने के लिए व्यापम-2 सामने आ चुका है। लगातार योग्य छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। शिवराज सरकार प्रदेश को शराबी प्रदेश बनाने पर तुली है। दूध महंगा और शराब सस्ती हो गयी है। उसके बाद भी यदि शिवराज सरकार इसे सुशासन कहती है तो बड़ा ही आश्चर्य होता है। नरेन्द्र सलूजा ने कहा कि ऐसे समय जब आज हर वर्ग परेशान हैं शिवराज सरकार के कुशासन से त्रस्त है, तब दिल्ली में जाकर सुशासन का इवेंट किया जा रहा है। यह उसी प्रकार का मजाक है। जैसे पिछले 2 वर्षों में किसानों की आय भी सरकार ने दोगुनी कर दी, सडक़ें अमेरिका से अच्छी बना दी हैं। प्रदेश में कोई युवा बेरोजगार नहीं रहा, महिलाएं सबसे ज्यादा सुरक्षित हैं, हर वर्ग सुखी है, ऐसा यह व्यंग और मजाक दिखाई पड़ता है।

Dakhal News

Dakhal News 4 April 2022


bhopal,Chief Minister Chouhan, planted saplings

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने प्रतिदिन एक पौधा लगाने के संकल्प के क्रम में सोमवार को राजधानी भोपाल के स्मार्ट सिटी उद्यान में कचनार और करंज का पौधा रोपा। इस दौरान पूर्व सांसद आलोक संजर, सुखवर्षा वेलफेयर सोसाइटी के सदस्य विशाल श्रीवास्तव, निहारिका सक्सेना तथा शिमला श्रीवास्तव ने भी पौधे लगाए।   मुख्यमंत्री चौहान ने ट्वीट करते हुए कहा कि "आज भोपाल के स्मार्ट पार्क में साथी आलोक संजर जी के जन्मदिन के शुभ अवसर पर उनके साथ कचनार व करंज का पौधा लगाया और शुभकामनाएं दी। शुभ अवसर पर पौधरोपण से श्रेष्ठ कार्य कुछ और नहीं हो सकता है। आपसे भी आग्रह है कि प्रत्येक मंगल अवसर पर पौधरोपण अवश्य करें।"   बता दें कि सोसाइटी, पर्यावरण-सरंक्षण और घायल पशुओं के उपचार के लिए कार्य कर रही है। संस्था के सदस्यों ने सूरज नगर स्थित सिविल डिस्पेंसरी प्रांगण में वृक्षारोपण किया है। संस्था वर्षा से पूर्व खुले स्थानों पर सीड बाल रखकर तथा लोगों को प्रेरित कर पौध-रोपण का अभियान चलाती हैं। संस्था का प्रयास रहता है कि लगाए गए पौधे उपेक्षा का शिकार न हों। संस्था प्रतिदिन लगभग 100 से अधिक बेसहारा जानवरों के लिए भोजन की व्यवस्था करती है। घायल जानवरों के इलाज की व्यवस्था भी सोसायटी द्वारा विगत 10 वर्षों से की जा रही है।   उल्लेखनीय है कि कचनार, सुंदर फूलों वाला वृक्ष है। कचनार के छोटे अथवा मध्यम ऊँचाई के वृक्ष पूरे भारत में पाए जाते हैं। कचनार औषधीय गुणों से भरपूर है। करंज का आयुर्वेद में महत्वपूर्ण उपयोग है

Dakhal News

Dakhal News 4 April 2022


bhopal,Chief Minister Chouhan ,wishes Ramadan , Muslim brothers

भोपाल। रमजान का पवित्र माह शुरू हो गया है। मुस्लिम धर्मावलंबियों ने रविवार को रमजान माह में पहला रोजा रखा रखा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के सभी मुस्लिम बंधुओं को रमजान माह की शुभकामनाएं दी हैं।   मुख्यमंत्री चौहान ने ट्वीट के माध्यम से मुस्लिम भाइयों को रमजान के पवित्र महीने की शुरुआत पर शुभकामनाएं देते हुए कहा है कि - “यह माह जीवन में कृपा बरसाए। समस्त मुस्लिम समाज को बधाई और शुभकामनाएँ”।

Dakhal News

Dakhal News 3 April 2022


ujjain,Congress performed ,vigorously against, central government

उज्जैन। देश में बढ़ती महंगाई को लेकर कांग्रेस ने रविवार को उज्जैन में जोरदार प्रदर्शन किया। इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा वरिष्ठ नेताओं के नेतृत्व में विशाल रैली निकाली और नारेबाजी करते हुए केन्द्र सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान कांग्रेस महासचिव एवं प्रदेश प्रभारी मुकुल वासनिक, पूर्व मंत्री जीतू पटवारी, पूर्व मंत्री बाला बच्चन, पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल, विधायक दिलीप गुर्जर रामलाल मालवीय, मुरली मोरवाल, महेश परमार,विशाल पटेल, पूर्व विधायक डॉ बटुक शंकर जोशी सहित कई कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मौजूद रहे।   शहर कांग्रेस अध्यक्ष महेश सोनी एवं जिला कांग्रेस अध्यक्ष कमल पटेल के नेतृत्व में रविवार को जिले में महंगाई मुक्त भारत अभियान की शुरुआत की गई। वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में सर्वप्रथम महंगाई की शव यात्रा निकालते हुए कांग्रेस कार्यालय से विशाल रैली निकाली गई, जहां सभी कांग्रेसियों के हाथ में झंडे और महंगाई की तख्तियां और केंद्र सरकार के खिलाफ कड़ा रोष था। रैली नई सड़क कंठल चौराहा सती गेट से होते हुए गोपाल मंदिर पहुंची, जहां सभा को सभी कांग्रेस नेताओं द्वारा संबोधित किया।   प्रदेश प्रभारी मुकुल वासनिक ने सभी को संबोधित कहा कि देश में रोजाना महंगाई की मार हर व्यक्ति पर पड़ रही है। खाद्य वस्तुएं रसोई गैस बिजली सहित रोज काम आने वाली जरूरत की चीजें के भाव रोजाना बढ़ाए जा रहे हैं। चुनाव के समय गरीबों की बात करने वाली भाजपा की नरेंद्र मोदी सरकार का महंगाई पर बिल्कुल कंट्रोल नहीं है। रोजाना की बढ़ती महंगाई से चारों ओर त्राहि-त्राहि मच रही है। रसोई गैस, पेट्रोल-डीजल, बिजली के भाव आसमान छू रहे हैं, जिससे गरीब जनता का जीना दूभर हो गया है। सत्ता के नशे में चूर भाजपा की सरकार तानाशाहीपूर्वक काम कर रही है। उन्हें इस देश की जनता के दुख दर्द से कोई मतलब नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस लगातार मोदी सरकार के खिलाफ आमजन के हितों को लेकर प्रदर्शन करती रहेगी।

Dakhal News

Dakhal News 3 April 2022


panna, Union Minister of State ,Sports Nishith Pramanik

पन्ना। ग्रामीण क्षेत्र की खेल प्रतिभाएं अंतरराष्ट्रीय स्तर तक पहुंचे, इसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने यंग इंडिया का लक्ष्य निर्धारित किया है, सांसद खेल महोत्सव प्रधानमंत्री के यंग इंडिया के लक्ष्य को साकार करेगा। खजुराहो संसदीय क्षेत्र में खेलों के प्रति जो जागरूकता है, उसने इस खेल महोत्सव को खेल महासुनामी बनाया है। यह खेल महासुनामी संसदीय क्षेत्र के हर विधानसभा और बूथ तक पहुंचेगी। जिसका लाभ बुन्देलखण्ड की खेल प्रतिभाओं को होगा। जो भारत का नाम और इस मिट्टी का नाम अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर रोशन करेगा।   यह बात केन्द्रीय खेल एवं युवक कल्याण राज्यमंत्री निशिथ प्रामाणिक ने शनिवार को पन्ना में सांसद खेल महोत्सव के समापन समारोह को संबोधित करते हुए कही। इस मौके पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष व क्षेत्रीय सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि खेल महोत्सव के माध्यम से कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विजन को पूरा किया है।   अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश का नाम रोशन करने वाली खेल प्रतिभाएं ग्रामीण क्षेत्र से केन्द्रीय खेल राज्यमंत्री निशिथ प्रामाणिक ने कहा कि आज उत्तर से दक्षिण और पूरब से पश्चिम तक की खेल प्रतिभाओं को उचित मंच मिल रहा है। जिसके सार्थक परिणाम भी हमारे सामने हैं। चाहे मणिपुर की बेटी चानू बाई हो या नीरज चौपडा, चाहे लवलीना हो या पीवी सिंधु ओलंपिक में देश का नाम रोशन करने वाली अधिकांश प्रतिभाएं ग्रामीण क्षेत्र से ही आती हैं। आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में गांव गांव तक खेल प्रतिभाओं को खेल सुविधाएं उपलब्ध हो रही है।   उन्होंने कहा कि 2014 के पहले जो ओलंपिक होता था, तब कौन खिलाड़ी खेल रहा है, इसका पता भी नहीं चलता था। पैराओलंपिक में जाने वाले खिलाडियों को खुद के जेब से टिकट करवानी पडती थी। 2014 के बाद खिलाडियों को न सिर्फ सुविधाएं मिली बल्कि जब वे ओलंपिक और पैराओलंपिक में खेलने के लिए गए तब स्वयं प्रधानमंत्री मोदी ने उनसे बात की और खिलाडियों का उत्साहवर्द्धन बढाया। उन्होंने कहा कि बीते वर्षों में जितने खिलाडी पैराओलंपिक में खेलने के लिए जाते थे उतने मेडल मोदी सरकार में हमारे खिलाडियों ने जीते है।   खेल महोत्सव से संसदीय क्षेत्र के 20 हजार खिलाडी जुड़े भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि बुन्देलखण्ड को गरीबी के कारण जाना जाता था लेकिन अब इसकी पहचान विकसित और उन्नति की ओर बढते हुए बुन्देलखण्ड के रूप में हो रही है। खेल महोत्सव में जिस तरह ग्रामीण अंचलों की खेल प्रतिभाओं ने भाग लिया, लोकसभा के प्रत्येक विधानसभा और मंडलों से लगभग 20 हजार से अधिक खिलाडी शामिल हुए। गांव गांव के खिलाडियों ने अलग अलग खेलों के माध्यम से जुडकर प्रधानमंत्री जी के सपने को पूरा किया। प्रदेश अध्यक्ष ने खेल महोत्सव के सहयोग के लिए मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान का अभिनंदन करते हुए खेल मंत्री यशोधराराजे सिंधिया को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में पन्ना में कई राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताएं होती। बॉलीवाल की नेशनल चैपिंयनशिप भी पन्ना में होगी।   क्षेत्र को मिली खेलो इंडिया सेंटर और फुटबाल एकेडमी की सौगात केन्द्रीय खेल एवं युवक कल्याण राज्यमंत्री निशिथ प्रामाणिक ने कार्यक्रम में कहा कि देश भर में 1 हजार खेलों इंडिया के सेंटर बन रहे हैं। उसमें से 500 सेंटर बन चुके हैं। मध्यप्रदेश में 44 सेंटर बने हैं और आगामी दिनों में खेल क्षेत्र से जुड़े 12 नए प्रोजेक्ट आने वाले है। उन्होंने कहा कि बुन्देलखण्ड के खेल प्रतिभाएं उभरकर आगे आए इसके लिए खेलो इंडिया सेंटर का काम इसी माह शुरू होगा। यहां इस क्षेत्र से कई फुटबाल खिलाडी निकले है। इस दृष्टि से केन्द्रीय खेल विभाग यहां फुटबाल एकेडमी खोलेगा और खिलाडियों को उचित प्रशिक्षण मिले, इसके लिए कोच भी निर्धारित करेगा।

Dakhal News

Dakhal News 3 April 2022


bhopal, Chief Minister Chouhan, pays tribute

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के संस्थापक डॉ. केशव बलिराम हेडगेवार की जयंती पर शनिवार को उन्हें नमन किया। मुख्यमंत्री चौहान ने अपने निवास कार्यालय स्थित सभागार में उनके चित्र पर माल्यार्पण किया।   मुख्यमंत्री चौहान ने ट्वीट करते हुए कहा कि "मातृभूमि के लिए समर्पित राष्ट्र चिंतक परम पूजनीय केशव बलिराम हेडगेवार जी को जयंती पर कोटिश: नमन करता हूं। अनुशासन, संकल्प एवं श्रम से राष्ट्र के नवनिर्माण का आपने जो मार्ग दिखाया, वह कोटि-कोटि स्वयंसेवकों का संस्कार बन गया। आपके चरणों में प्रणाम।"   उल्लेखनीय है कि डॉ. हेडगेवार बचपन से ही क्रांतिकारी प्रवृत्ति के थे, उन्हें अंग्रेज शासकों से घृणा थी। डॉ. हेडगेवार ने 1925 में विजयादशमी पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की स्थापना की। डॉ. हेगडेवार का मत था कि जाति-पाति और छूआछूत के भेद के कारण हम असंगठित व दुर्बल हुए। परिणामस्वरूप मुट्ठी भर लुटेरों के हाथों हमें हार खानी पड़ी। गुलामी का अभिशाप सहना पड़ा। राष्ट्र को सुदृढ़ बनाने के साथ समाज को संगठित, अनुशासित और शक्तिशाली बनाना उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता थी।

Dakhal News

Dakhal News 2 April 2022


bhopal, Vande Mataram singing,all government offices

भोपाल। मध्य प्रदेश में परम्परा के अनुसार, शुक्रवार को अप्रैल माह के प्रथम कार्यदिवस के मौके पर मंत्रालय समेत सभी सरकारी दफ्तरों में राष्ट्रीगीत वंदे-मातरम का सामूहिक गायन किया गया। इसके बाद सभी जगह कामकाज की शुरूआत हुई।   राज्य शासन के निर्देशानुसार मध्य प्रदेश में हर महीने प्रथम कार्यदिवस के अवसर पर सामूहिक वंदे-मातरम गायन किया जाता है। इसी क्रम में शुक्रवार को राजधानी भोपाल में राष्ट्रगीत वंदे-मातरम एवं राष्ट्रगान "जन गण मन" का सामूहिक गायन मंत्रालय स्थित सरदार वल्लभ भाई पटेल पार्क में संपन्न हुआ। इस अवसर पर पुलिस बैंड ने मधुर धुनें प्रस्तुत की। इस मौके पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव शैलेंद्र सिंह, विनोद कुमार, प्रमुख सचिव के.सी. गुप्ता एवं मंत्रालय सहित सतपुड़ा विंध्याचल भवन के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।   जिला मुख्यालयों पर शुक्रवार को सभी कलेक्टर कार्यालयों में सामूहिक वंदेमातरम और राष्ट्रगान का आयोजन हुआ, जिनमें सभी सरकारी अधिकारी-कर्मचारी शामिल हुए।

Dakhal News

Dakhal News 1 April 2022


bhopal,Water quality measurement ,85 rivers of MP

भोपाल। पर्यावरण मंत्री हरदीप सिंह डंग ने बताया कि प्राकृतिक जल स्त्रोतों को प्रदूषण से बचाने के लिये उनकी सतत निगरानी की जा रही है। पर्यावरण विभाग द्वारा प्रदेश की 85 नदियों एवं उनकी सहायक नदियों की जल गुणवत्ता का मापन कार्य किया जा रहा है। पिछले डेढ़ वर्ष में प्रमुख नदियों, उनकी सहायक नदियों, झील, बांध, तालाब, भू-जल स्त्रोत और नालों से 12 हजार 357 जल नमूने एकत्रित कर जल गुणवत्ता का विश्लेषण किया गया।   मंत्री डंग ने शुक्रवार को बताया कि प्रदेश की नदियों के जल गुणवत्ता का आंकलन और वर्गीकरण केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा आधारित मानक पर किया जाता है। गुण मापन में आने वाली प्रदेश की 85 नदियों में - अजनाल, अनास, अंगरेड, असन, बेस, बंजर, बावनगंगा, बेबस, बेतवा, बिछिया, बिहर, बोरार, बेसली, चंबल, चामला, चिलार, चकरार, चोरल, छोटा तवा, छोटी काली सिंध, चौपन, देनवा, देब, धसान, गंभीर, गोई, गोपद, गौर, गुनौर, हथनी, हिरन, जामर, जमुनी, जोहिला, कचान, काली सिंध, कन्हान, करियारी, कटनी, केन, केवई, खान, खुज, क्षिप्रा, कुंदा, कुरैल, कलियासोत, मान, माचना, महानदी, महेश्वरी, माही, मालेनी, मंदाकिनी, मैयर, मुरना, नर्मदा, नेवज, नेवार, परियट, पार्वती, पेंच, क्वारी, रिहंद, शक्कर, शंख, सरस्वती, सटक, सीप, सीवन, शेर, शिवना, सिलगी, सिमरार, सिंध, सोनार, सोन, सुखद, सतना, सर्फा, तामिया, ताप्ती, टोंस, उमरार और वैनगंगा शामिल हैं।

Dakhal News

Dakhal News 1 April 2022


bhopal,Energy Minister Tomar, reached the hospital

भोपाल। ग्वालियर के सिविल अस्पताल हजीरा को कायाकल्प योजना के तहत पांचवा स्थान प्राप्त हुआ है। इसके साथ ही चिकित्सकीय सुविधाओं की श्रेणी में मध्यप्रदेश में इसे द्वितीय स्थान प्राप्त हुआ है। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने शुक्रवार को अस्पताल पहुंचकर चिकित्सकों, मैरामेडीकल स्टाफ के साथ-साथ अस्पताल को साफ-सुथरा रखने में अपनी अहम भूमिका निभाने वाले सफाई मित्रों का पुष्पाहार पहनाकर नमन करके सम्मान किया। साथ ही उनके श्रेष्ठ कार्य के लिये बधाई भी दी।     ऊर्जा मंत्री तोमर शुक्रवार को प्रात: रेलमार्ग से ग्वालियर पहुंचे और रेलवे स्टेशन से ही सीधे हजीरा अस्पताल पहुंचे और चिकित्सकों के साथ ही समस्त स्टाफ को प्रदेश में अच्छी रैंकिंग प्राप्त करने पर बधाई दी। ऊर्जा मंत्री तोमर ने कहा कि सिविल अस्तपाल हजीरा के चिकित्सक और स्टाफ जिन्होंने अस्पताल आने वाले सभी लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएँ मुहैया कराईं और कायाकल्प योजना के तहत अस्पताल का कायाकल्प करने में अपनी अग्रणी भूमिका निभाई, वे सभी बधाई के पात्र हैं। ऊर्जा मंत्री तोमर ने अस्पताल में भर्ती मरीजों से भी भेंट की और उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली।     ऊर्जा मंत्री तोमर ने सीएमएचओ मनीष शर्मा और हजीरा सिविल अस्पताल के डॉक्टरों के साथ अस्पताल में सुविधाओं में बढोत्तरी करने के संबंध में चर्चा की।

Dakhal News

Dakhal News 1 April 2022


anuppur, Food Minister, flagged off , vehicles , Chief Minister

अनूपपुर। प्रदेश के के खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री राशन आपके ग्राम योजनांतर्गत शेष बचे 3 राशन वितरण चलित वाहनों के हितग्राहियों को रवाना किया।   मुख्यमंत्री राशन आपके ग्राम योजनांतर्गत जिले के 20 सेक्टरों के 17 हितग्राहियों को पूर्व में ही चलित वाहन प्रदाय किए गए हैं। शुक्रवार को शेष बचे 3 राशन वितरण चलित वाहनों के हितग्राहियों ग्राम दारसागर के पाल सिंह गोंड़, ग्राम खमरिया के राकेश सिंह गोंड़ तथा ग्राम दमेहड़ी के दिनेश सिंह उर्वेती को चाबी देकर व वाहनों का शुभारम्भ करते हुए हरी झण्डी दिखाकर खाद्य मंत्री बिसाहूलाल सिंह द्वारा संबंधित क्षेत्रों के लिए रवाना किया गया। इस अवसर पर कलेक्टर सोनिया मीना, पुलिस अधीक्षक अखिल पटेल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी हर्षल पंचोली, अनुविभागीय अधिकारी अनूपपुर कमलेश पुरी तथा जनप्रतिनिधिगण, अनुविभागीय अधिकारी व हितग्राही उपस्थित थे।   उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश शासन द्वारा प्रदेश में मुख्यमंत्री राशन आपके ग्राम योजना प्रारंभ की गई है, जिसके तहत पीडीएस दुकान से दूरदराज के ग्रामों में राशन पहुंचाकर वितरण किया जाएगा। इन क्षेत्रों के हितग्राहियों को अब उचित मूल्य राशन लेने के लिए पंचायत मुख्यालय पर नहीं जाना होगा। इससे उन्हें घर गांव में ही राशन की सुविधा मिलेगी एवं समय की बचत भी होगी।

Dakhal News

Dakhal News 1 April 2022


bhopal,Ladli Laxmi festival , celebrated in Madhya Pradesh

भोपाल। प्रदेश में लाड़ली लक्ष्मी योजना का सफल क्रियान्वयन किया जा रहा है। योजना में अब तक लगभग 43 लाख बेटियों को लाभान्वित किया गया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस योजना का दायरा बढा़ने का निर्णय लिया है। योजना के दूसरे चरण की शुरूआत 2 मई से की जाकर 11 मई तक लाड़ली लक्ष्मी उत्सव मनाया जायेगा। उत्सव के आयोजन की रणनीति एवं रूपरेखा तैयार करने के लिए गुरूवार को मंत्रालय में तकनीकी शिक्षा कौशल विकास एवं रोजगार मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया और संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर की उपस्थिति में मंत्री समूह समिति की बैठक हुई।     खेल मंत्री सिंधिया ने 2 से 11 मई तक होने वाले लाड़ली लक्ष्मी उत्सव की तैयारियों की जानकारी ली। उन्होंने योजना के महत्व की जानकारी पंचायत स्तर तक पहुँचाने होर्डिंग्स और पंचायत भवनों पर डिजिटल वॉल पेंटिंग कराने का सुझाव भी दिया।     संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने अपराजिता कार्यक्रम में किशोरियों को लाठी चलाने और तलवार बाजी का प्रशिक्षण देने का सुझाव दिया। इस दौरान अपर मुख्य सचिव महिला-बाल विकास अशोक शाह ने बताया कि लाड़ली उत्सव के दौरान सृजनात्मक स्पर्धाओं, देशी खेलों की प्रतियोगिता, किशोरियों का स्वास्थ्य परीक्षण आदि कार्यक्रम किये जायेंगे। इस अवसर पर संचालक महिला बाल विकास राम राव भोंसले और उप सचिव महिला-बाल विकास अजय कटसेरिया उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 31 March 2022


bhopal,Agriculture Minister , decision of Shivraj cabinet ,farmers historic

भोपाल/ हरदा। प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि मध्यप्रदेश के किसानों के लिए शिवराज कैबिनेट का ऐतिहासिक फैसला हुआ है और किसानों के लिए ऐतिहासिक दिन भी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के लाखों किसानों जिन्होंने ऋण लिया था। वे 28 मार्च तक अपना ऋण जमा नहीं कर पाए, 28 मार्च निकल गया और आज 31 मार्च को सरकार ने निर्णय लिया कि किसान भाई 15 अप्रैल तक फसलों के लिए गए ऋण को जमा कर सकते हैं। ताकि किसान को अगली रवी और खरीफ फसल के लिए 0 प्रतिशत ब्याज पर ऋण मिलता रहे और वह इस से वंचित न रहे। कृषि मंत्री पटेल ने मुख्यमंत्री को धन्यवाद देते हुए किसान भाइयों से अपील की है कि वे 15 दिन की अवधि की छूट का भरपूर लाभ ले। उन्होंने कहा कि प्रदेश का एक भी किसान इस लाभ से वंचित ना रहे। 15 अप्रैल के पहले किसान भाई अपना ऋण जमा करें। उन्होंने किसानों से कहा कि 15 दिन की इस अवधि में जमा नहीं किया तो किसान भाइयों आपके ऊपर 9प्रतिशत की दर से ब्याज के साथ पेनल्टी लगेगी। अगली बार ऋण लेने लेने की 0प्रतिशत ब्याज की पात्रता खत्म हो जाएगी। ब्याज से किसान की खेती घाटे की खेती हो जाएगी इसलिए किसान भाइयों शिवराज सरकार ने जो अवसर दिया है।उसका आप भरपूर लाभ लें। मूल का मूल जमा करा दे। जिससे आप आगे जीरो प्रतिशत पर ऋण ले सकें और आप पात्र बने रहे।   किसानों के लिए सगे भाई से भी ज्यादा है सीएम   किसान नेता एवं मध्यप्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि मध्यप्रदेश के किसानों के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह सगे भाई से भी ज्यादा है, जो मैं अक्सर कहता हूं। आप कल्पना कीजिए या व्यवहारिक तौर पर देखिए दो भाई अलग हो जाएं तो सगा भाई भी पैसे की जरूरत पडऩे पर महाजनी और बैंक ब्याज की बात करता है लेकिन दुनिया के पहले मुख्यमंत्री हैं शिवराज सिंह चौहान, जो बगैर ब्याज के किसानों को प्रदेश में ऋण दे रहे हैं। किसानों के लिए सगे भाई जो काम नहीं कर पाए वह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कर रहे हैं।

Dakhal News

Dakhal News 31 March 2022


bhopal, Atal Griha Jyoti Yojana ,Energy Minister Tomar

भोपाल। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने बताया कि विद्युत नियामक आयोग ने वितरण कम्पनियों द्वारा माँगी गई 8.7 प्रतिशत वृद्धि के विरुद्ध मात्र 2.64 प्रतिशत की औसत दर वृद्धि की है।   उन्होंने गुरुवार को बताया कि ऐसे उपभोक्ता जो पर्यावरण के प्रति जागरूक हैं और केवल रिन्युएवल एनर्जी से ही बिजली जलाना चाहते हैं, वह 1.13 रुपये प्रति यूनिट का अतिरिक्त भुगतान कर ग्रीन एनर्जी से बिजली उपयोग कर सकते हैं। उनके लिये पहली बार ग्रीन एनर्जी टैरिफ लागू किया गया है। निम्न दाब औद्योगिक श्रेणी के उपभोक्ता, रेलवे ट्रेक्शन, ई-व्हीकल चार्जिंग स्टेशन एवं एलवी 2.2 (गैर घरेलू) श्रेणी की दरों में कोई वृद्धि नहीं की गई है। उपभोक्ताओं को मीटर रेंट अथवा मीटरिंग चार्ज नहीं लगेगा।   घरेलू उपभोक्ताओं को ऑनलाइन बिल भुगतान के लिये दिये जाने वाली 0.5 प्रतिशत की छूट में अधिकतम सीमा को समाप्त कर दिया गया है। अभी अधिकतम 20 रुपये तक की छूट दी जाती थी। उच्च दाब उपभोक्ताओं को पूर्व वर्ष में दी जा रही छूट एवं प्रोत्साहन को लागू रखा गया है। घरेलू उपभोक्ताओं के 100 यूनिट तक के बिल पर 23 रुपये बढ़ाये गये हैं, किन्तु उपभोक्ता को अटल गृह ज्योति योजना में पूर्ववत 100 रुपये ही देना है। बढ़ी हुई राशि राज्य सरकार द्वारा दी जायेगी।   निम्न दाब उपभोक्ताओं के बिल में मात्र 5 पैसे से लेकर 12 पैसे तक की ही वृद्धि की गई है। अगली तिमाही अप्रैल से जून के लिये एफसीए में एक पैसे प्रति यूनिट की कमी समस्त उपभोक्ताओं के लिये की गई है। एफसीए की मौजूदा दर 7 पैसा प्रति यूनिट थी, जो घटाकर 6 पैसा प्रति यूनिट कर दी गई है।   उपभोक्ताओं को इस वित्त वर्ष में 22,500 करोड़ की सब्सिडी ऊर्जा मंत्री तोमर ने कहा कि सरकार वर्ष 2022-23 में 22 हजार 500 करोड़ रुपये की सब्सिडी बिजली उपभोक्ताओं को देगी। साथ ही कृषि उपभोक्ताओं के बिजली बिल का 93 प्रतिशत सरकार भुगतान करेगी। उन्होंने बताया कि कोरोना के कारण आस्थगित बिजली बिलों का भुगतान भी सरकार करेगी। यह राशि 6400 करोड़ रुपये है।

Dakhal News

Dakhal News 31 March 2022


bhopal,Pradhan Mantri Awas Yojana ,Vishnudutt Sharma

भोपाल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री आवास योजना लोगों को ना सिर्फ उनके सपनों का आशियाना उपलब्ध करा रही है, बल्कि उनके जीवन स्तर को ऊपर उठा कर जीवन में खुशियां लाने का काम भी कर रही है। इस योजना के अंतर्गत प्रदेश के 5 लाख 21 हजार परिवारों को गृह प्रवेश कराने के लिए मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को धन्यवाद देता हूं, उनके प्रति आभार जताता हूं। यह बात भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने मंगलवार को प्रधानमंत्री आवास योजना के मकानों में सामूहिक गृह प्रवेश पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कही। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ अब तक मध्यप्रदेश के लाखों शहरी और ग्रामीण हितग्राही उठा चुके हैं। शर्मा ने कहा कि एक तरफ जहां केंद्र सरकार इस योजना के अंतर्गत उदारतापूर्वक बजट आवंटन दे रही है, वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की प्रदेश सरकार भी अन्य केंद्रीय योजनाओं की तरह प्रदेश के लोगों को इस योजना का भी लाभ दिलाने के लिए हमेशा तत्पर है। उन्होंने कहा कि कोरोना संकट और कठिन आर्थिक परिस्थितियों के बावजूद मुख्यमंत्री चौहान की सरकार ने अपनी ओर से इस योजना के अंतर्गत मैचिंग ग्रांट की राशि उपलब्ध कराने में कभी कोताही नहीं बरती। यही वजह है कि कमलनाथ सरकार के 15 महीनों को छोड़कर प्रदेश के लोगों को इस योजना का लाभ लगातार मिलता रहा है। शर्मा ने कहा कि आवासहीन गरीब परिवारों को रहने के लिए पक्का घर उपलब्ध कराने को काम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने एक मिशन के तौर पर लिया है और वो दिन दूर नहीं, जब प्रदेश का कोई भी गरीब झोपड़ी में नहीं रहेगा, बल्कि सभी के पास अपना पक्का घर होगा।

Dakhal News

Dakhal News 29 March 2022


bhopal,.Minister Dr. Mishra, distributed certificates , housing beneficiaries

भोपाल। गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने मंगलवार को भोपाल कलेक्ट्रेट में प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के हितग्राहियों को आवास प्रमाण-पत्र सौंपे। उन्होंने ग्रामीणों के पक्के आवास के स्वप्न को साकार करने के लिये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का आभार व्यक्त किया।   डॉ. मिश्रा ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में प्रदेश में पात्रता अनुसार ज्यादा से ज्यादा गरीब परिवारों को योजना से लाभान्वित करने का कार्य किया जा रहा है।

Dakhal News

Dakhal News 29 March 2022


indore,Government

इंदौर। "आज प्रदेश के पांच लाख 21 हजार लोगों को आवास की सौगात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में दी गई। मैं आज प्रदेश के सभी नागरिकों को इस सौगात के लिए बधाई एवं शुभकामनाएं देता हूं। केंद्र एवं प्रदेश शासन का संकल्प है कि समाज के अंतिम व्यक्ति तक शासन की योजनाओं का लाभ पहुंचाया जाए और कोई भी जरूरतमंद आवासहीन ना रहे।"   यह बात मंगलवार को जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने इंदौर के सांवेर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम कम्पेल में आयोजित गृह प्रवेश कार्यक्रम के दौरान कही। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा प्रदेश के पांच लाख 21 हजार लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत आवास की सौगात देते हुए गृह प्रवेश कराया गया।   इंदौर में बनाए गए 7 हजार 997 आवास मंत्री तुलसीराम सिलावट ने कहा कि इंदौर में लगभग 8 हजार 221 आवास स्वीकृत किए गए थे जिसमें से 7 हजार 997 आवास बना लिए गए हैं। इन सभी आवासों की लागत लगभग 110 करोड़ रुपये हैं। उन्होंने बताया कि आज इंदौर के 186 लोगों को दो करोड़ 51 लाख की लागत के आवास प्रदान किए गए हैं। भविष्य में भी इसी तरह सभी जरूरतमंदों को आवास प्रदान किए जाते रहेंगे।   उन्होंने बताया कि सांवेर विधानसभा क्षेत्र में लगभग 5 हजार 122 प्रधानमंत्री आवास स्वीकृत किए गए हैं। उन्होंने कहा कि उन्होंने जो संकल्प लिया था कि मध्य प्रदेश में सबसे ज्यादा विकास होगा तो सांवेर में होगा, उस संकल्प को पूरा करने की दिशा में हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। जल जीवन मिशन के तहत हर घर में नल और नल में जल पहुंचाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश शासन गरीबों के कल्याण के लिए दृढ़ संकल्पित है। कोरोना काल में गरीबों को निशुल्क राशन प्रदान किया गया। उन्होंने कहा कि गेहूं खरीदी में मध्यप्रदेश देश में सबसे आगे रहा।   सिलावट ने खुड़ैल तहसीलदार को निर्देश दिए कि 15 दिन की अवधि में कम्पेल क्षेत्र के सभी सीमांकन, नामांतरण से संबंधित आवेदनों का निराकरण किया जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि संपूर्ण क्षेत्र का सर्वे किया जाए और यह सुनिश्चित किया जाए कि कोई भी पात्र व्यक्ति आवासहीन ना रहे। उन्होंने कहा कि सांवेर प्रदेश में सिंचाई में नंबर वन हो इसके लिए उनके द्वारा नित नये प्रयास किए जा रहे हैं।   अमृत महोत्सव के तहत बनाए जायेंगे 75 सरोवर मंत्री सिलावट ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवाहन के तहत आजादी के अमृत महोत्सव के तहत इंदौर देश का पहला जिला बने जहां 75 सरोवर बनाया जाए इसका संकल्प हम आज लेते हैं।   सिलावट ने आज सांवेर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम कम्पेल में प्रधानमंत्री आवास (ग्रामीण) योजना के हितग्राही सावित्री बाई एवं थावरचंद मडिया के आवास पहुंचकर गृह प्रवेश कराया। उन्होंने नल जल योजना के तहत घरों में लगाए गए नल कनेक्शन से पानी पीकर उसकी गुणवत्ता को भी जांचा।   आवास योजना से सावित्रीबाई के घर जला खुशहाली का दीपक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा आज प्रदेश के 5:15 लाख लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत बनाए गए पक्के आवासों की सौगात भेंट की गई। इन हितग्राहियों में इंदौर के कम्पेल गांव की सावित्री बाई भी शामिल है। सावित्रीबाई के आवास का गृह प्रवेश कराने के लिए प्रदेश शासन के जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट उनके घर पहुंचे।   सावित्री बाई बताती है कि शासन से मिली सौगात ने उनके जीवन में परिवर्तन की नींव रखी है। ना केवल उनके पक्के घर का सपना आज पूरा होने जा रहा है, बल्कि उनके घर में नल कनेक्शन भी लग गया है। अब उन्हें पानी भरने के लिए चलकर कहीं और नहीं जाना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि इन सभी सौगातों को पाकर और मंत्री सिलावट को उनके घर में देख कर आज उनके घर में खुशहाली का दीपक जल गया है। उन्होंने कहा कि वे बेहद खुश है और केंद्र सरकार तथा मध्य प्रदेश सरकार को उनके पक्के घर का सपना पूरा करने के लिए धन्यवाद देती हैं।

Dakhal News

Dakhal News 29 March 2022


bhopal,Building ,strong nation ,depends on better development

भोपाल। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने कहा कि सशक्त राष्ट्र का निर्माण तभी संभव है, जब बच्चों का बेहतर विकास हो। बच्चों के अधिकारों का संरक्षण हमारी जिम्मेदारी है।   मंत्री सारंग सोमवार को कैरियर कॉलेज में मध्यप्रदेश बाल संरक्षण आयोग की मास्टर ट्रेनर प्रशिक्षण कार्यशाला को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने आयोग के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि यह एक महत्वपूर्ण कार्यशाला है। अच्छे समाज का निर्माण बच्चों के भविष्य पर निर्भर होता है। बाल अधिकारों की जानकारी बच्चों के साथ उनके अभिभावक और शिक्षकों को भी होना आवश्यक है।   सारंग ने कहा कि कार्यशाला में सभी जिलों के ऐसे प्रशिक्षणार्थियों का चयन किया गया है, जो 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के समुचित विकास और उनके अभिभावकों को बाल अधिकारों के प्रति जागरूक करेंगे।   आयोग के सदस्य बृजेश चौहान ने कार्यशाला के उद्देश्यों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि बच्चों को अपने अधिकारों की जानकारी नहीं है। कार्यशाला में हुए विभिन्न सत्रों में विशेषज्ञों द्वारा बाल अधिकार, बाल सुरक्षा, सायबर क्राइम आदि विषयों पर जानकारी साझा की गई।   चौहान ने कहा कि कोरोना काल के बाद बच्चों में बड़े बदलाव देखने को मिल रहे हैं। स्कूल न जाना और घरों में कैद रहकर ऑनलाइन पढ़ाई ने बच्चों में स्ट्रेस लेवल को बढ़ा दिया है, जिससे बच्चे चिड़चिड़े हो गये हैं। यह हमारी जिम्मेदारी बनती है कि हम इन परिस्थितियों से बच्चों को बाहर निकालें। इसमें सबसे महत्वपूर्ण और उत्कृष्ट भूमिका शिक्षक अदा कर सकते हैं। बच्चों को अपने अधिकारों की जानकारी हो, इसके लिये आवश्यक है कि शिक्षकों को भी अधिकारों की जानकारी हो।   लोक शिक्षण आयुक्त अभय वर्मा ने कहा कि बच्चों के साथ सबसे ज्यादा काम स्कूल शिक्षा विभाग करता है। शिक्षा विभाग में राइट-टू-एजुकेशन लागू हुआ है, तब से बच्चे गुणवत्तापूर्ण शिक्षा पाने में सफल हो रहे हैं। बच्चों के शोषण को रोकने के लिये न सिर्फ बच्चों को उनके अधिकारों की जानकारी होनी चाहिये, बल्कि उनके अभिभावकों और शिक्षकों को भी इन अधिकारों के प्रत सजग रहना होगा।   कार्यशाला में मास्टर ट्रेनर्स को बाल मजदूरी, साइबर क्राइम, जुविनाइल जस्टिस एवं पॉक्सो एक्ट आदि के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई। मध्यप्रदेश बाल संरक्षण आयोग की सचिव शोभा वर्मा ने आभार माना।

Dakhal News

Dakhal News 28 March 2022


bhopal, Chief Minister Chouhan, planted saptaparni ,gulmohar sapling

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को राजधानी भोपाल के स्मार्ट उद्यान में सप्तपर्णी और गुलमोहर का पौधा लगाया। इस दौरान मुख्यमंत्री चौहान के साथ लोक निर्माण राज्य मंत्री सुरेश धाकड़ तथा भोपाल के श्री सत्य साईं महिला महाविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना की डॉ. मनीषा त्रिपाठी, डॉ. पूजा सग्गर, स्वयंसेवक कुमारी पलक जैन, शिवानी कौशिक, शिवांगी मिश्रा और अवंतिका ने भी पौध-रोपण किया।   बता दें कि महाविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई ने ग्रामीण क्षेत्रों में व्यापक स्तर पर पौध-रोपण का कार्य किया है। मुख्यमंत्री चौहान द्वारा आरंभ किए गए अंकुर अभियान में भी राष्ट्रीय सेवा योजना की बालिकाओं ने समय-समय पर पौध-रोपण गतिविधियाँ संचालित की है। साथ ही स्वच्छता के प्रति जागरूकता अभियान चलाने के उद्देश्य से पाँच दलों अवनी, नील, पावक, गगन एवं समीर का गठन किया है। यह दल नुक्कड़ नाटक के माध्यम से जन-सामान्य को वृक्षारोपण और स्वच्छता अभियान का संदेश देते हैं। हाल ही में भोपाल के पास ग्राम तारा सेवनिया में एनएसएस केंप में स्वच्छता और वृक्षारोपण पर विशेष गतिविधियाँ संचालित की गई हैं।   उल्लेखनीय है कि गुलमोहर को विश्व के सुंदरतम वृक्षों में से एक माना जाता है। गुलमोहर की पत्तियों के बीच बड़े-बड़े गुच्छों में खिले फूल, इस वृक्ष को अलग ही आकर्षण प्रदान करते हैं। गर्मी के दिनों में गुलमोहर के पेड़, पत्तियों की जगह फूलों से लदे रहते हैं। यह औषधीय गुणों से भी समृद्ध है। सप्तपर्णी सदाबहार औषधीय वृक्ष है, जिसका आयुर्वेद में बहुत महत्व है। इसका उपयोग विभिन्न औषधियों के निर्माण में किया जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 28 March 2022


bhopal, Government getting, FIR against, Arun Yadav

भोपाल। मध्य प्रदेश में शिक्षक वर्ग तीन परीक्षा के प्रश्नपत्र का स्क्रीन शॉट वायरल होने के मामले में कांग्रेस नेता केके मिश्रा और व्यापमं के व्हिसिल ब्लोअर एवं स्वास्थ्य एक्टिविस्ट डॉ. आनंद राय के खिलाफ अजाक थाने में एफआईआर दर्ज होने के बाद राजनीतिक घमासान तेज हो गया है। कांग्रेस इस कार्रवाई की आलोचना कर रही हैं और सरकार पर भ्रष्टाचारियों को संरक्षण देने और अन्याय के खिलाफ आवाज उठाने वालों को दवाने का आरोप लगा रही है। पूर्व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव ने इस कार्रवाई की निंदा करते हुए कहा कि "उल्टा चोर कोतवाल को डांटे" यह कहावत मप्र में चरितार्थ हो रही है, शिक्षक वर्ग 3 का पेपर लीक होता है और एफआईआर दर्ज होती है केके मिश्रा एवं डॉ.आनंद राय के खिलाफ। उन्होंने कहा कि मुझे सरकार से उम्मीद थी जिन्होंने गड़बड़ी कर लाखों युवाओं का भविष्य चौपट किया गया उन पर एफआईआर होगी, मगर भ्रष्टाचारियों को तो सरकार का संरक्षण है, इसीलिए व्यापमं घोटाले की आवाज़ उठाने वालों पर एफआईआर करवा रही है, क्योंकि इन दोनों ने व्यापमं महाघोटाले में कई वर्षों से लंबी लड़ाई लड़ी है, सरकार दोषियों के खिलाफ कार्यवाही करे न कि आवाज़ उठाने वालों के खिलाफ । बता दें कि मध्य प्रदेश में शिक्षक वर्ग तीन परीक्षा के प्रश्नपत्र का स्क्रीन शॉट वायरल होने का मामला लगातार तूल पकड़ता जा रहा है। इस मामले में कांग्रेस नेता केके मिश्रा और व्यापमं के व्हिसिल ब्लोअर एवं स्वास्थ्य एक्टिविस्ट डॉ. आनंद राय के खिलाफ मुख्यमंत्री सचिवालय में उपसचिव लक्ष्मण सिंह मरकाम ने रविवार को राजधानी भोपाल के अजाक थाना पुलिस ने जालसाजी और एट्रोसिटी एक्ट के समेत अन्य धाराओं में एफआईआर दर्ज करवाई है। मुख्यमंत्री कार्यालय में पदस्थ उपसचिव लक्ष्मण सिंह ने शिकायत की थी कि डॉ. आनंद राय ने इंटरनेट मीडिया के माध्यम पर किसी लक्ष्मण सिंह नामक युवक के मोबाइल फोन के स्क्रीन शाट फोटो अपलोड किए थे। उप सचिव ने पुलिस को बताया कि उनके खिलाफ साजिश रचकर डॉ. आनंद राय और प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री केके मिश्रा उनको अनुसूचित जनजाति वर्ग का जानते हुए झूठी और मिथ्या सूचना प्रकाशित की।

Dakhal News

Dakhal News 28 March 2022


guna, Slippery tongue , MLA Gopilal Jatav

गुना। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के कार्यकाल के दो वर्ष पूरे होने पर भाजपा ने पत्रकार वार्ता आयोजित कर भाजपा सरकार की उपलब्धियां गिनाईं। इस दौरान गुना विधायक गोपीलाल जाटव की जुबान फिसल गई। उन्होंने पीएम मोदी को प्रदेश का सीएम बता दिया। साथ ही बोले कि प्रदेश की 8 हजार करोड़ जनता खुश है। इस दौरान पिछले दो वर्षों में गुना जिले में हुए विकास कार्यों के बारे में जानकारी दी गयी। साथ ही आगे के विकास कार्यों की रूपरेखा भी बताई गई।   भाजपा जिलाध्यक्ष गजेंद्र सिकरवार ने सीएम शवराज के चौथे कार्यकाल के दो वर्ष के कार्यकाल की उपलब्धियां गिनाईं। उन्होंने कहा कि कोरोना के भीषण संकट के बीच हमारी सरकार बनी थी। इसके बावजूद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जी के नेतृत्व में सरकार और संगठन में हर स्तर पर मानवता को बचाने का काम किया और विकास को भी अवरुद्ध नहीं होने दिया। इस बात की खुशी है कि सीएम शिवराज सिंह के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की संवेदनाओं से भरी हुई सरकार कार्य कर रही है।     उन्होंने आगे बताया कि चाहे किसान हो, युवा हों, बेटियां, महिलाओं और बुजुर्गों के लिए भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने दिन रात चिंतन करते हुए कल्याणकारी योजनाओं की एक लंबी श्रृंखला खड़ी की है। समाज का ऐसा कोई वर्ग, ऐसा कोई अंग नहीं है, जिसके सर्वांगीण विकास के लिए भाजपा सरकार ने कोई ठोस प्रयास नहीं किए हो। पिछले तीन कार्यकालों में भाजपा सरकार द्वारा किए गए प्रयासों के फलस्वरूप प्रदेश अब विकसित प्रदेशों की बराबरी पर खड़ा है।     विधायक ने पीएम को बताया सीएम     अपनी बात रखते हुए गुना विधायक गोपीलाल जाटव की जुबान फिसल गई। उन्होंने कहा कि "रोजगार के लिए प्रयास करेंगे। आज जनता इतनी सुखी है। भारतीय जनता पार्टी की जय-जयकार हो रही है। हमारे मुख्यमंत्री मोदी जी की जय जयकार हो रही है। साढ़े 8 हजार करोड़ जनता, मध्यप्रदेश की, कोई व्यक्ति ये नहीं कह सकता कि वह परेशान है। एक आदमी ढूंढकर दिखाओ।"

Dakhal News

Dakhal News 27 March 2022


indore,Literary writers , Governor Patel

इंदौर। राज्यपाल मंगु भाई पटेल ने कहा कि वर्तमान पीढ़ी को देश की आजादी का इतिहास पढ़ाने तथा उसका महत्व बताने की जरुरत है। अपने देश की आजादी में बलिदानियों का भी अहम योगदान रहा है। उन्होंने कहा कि साहित्यकार अपनी सभ्यता, संस्कृति और राष्ट्र को सही रास्ता दिखाते हुये अपनी कलम से अपने देश की धमनियों में नये रक्त का संचार करते रहें।   राज्यपाल पटेल शनिवार को इंदौर में मध्य भारत हिन्दी साहित्य समिति द्वारा आयोजित साहित्यिक संस्थाओं के सम्मेलन को सम्बोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में उन्होंने समिति शताब्दी सम्मान से वरिष्ठ साहित्यकार डॉ. दामोदर खड़से तथा श्री राजकुमार कुम्भज को सम्मानित किया। इस अवसर पर पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, सांसद शंकर लालवानी, संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा, मध्यप्रदेश साहित्य अकादमी के निदेशक डॉ. विकास दवे, मध्य भारत हिन्दी साहित्य समिति के प्रधानमंत्री प्रो. सूर्यप्रकाश चतुर्वेदी,देवी अहिल्या विश्वविद्यालय की कुलपति रेणु जैन आदि उपस्थित थे।   राज्यपाल पटेल ने कहा कि मध्यभारत हिन्दी साहित्य समिति एक शताब्दी से राष्ट्रभाषा हिन्दी की परम सेवा करने वाली पावन संस्था है। इस संस्था द्वारा आयोजित साहित्य संस्थाओं के सम्मेलन में उपस्थित होना गौरव की बात है। पूज्य बापू महात्मा गांधी भी इस संस्था में पधारे थे। साहित्य सेवकों और माँ सरस्वती के साधकों की इस संस्था ने राष्ट्रभाषा की जो प्रतिबद्ध सेवा की है, वह अनुकरणीय और वंदनीय है।   उन्होंने कहा कि साहित्यकार और कवि समाज का अटूट हिस्सा, वह कभी रिटायर नहीं होते, उनकी रचना धर्मिता न थकती है, और न ही समाज को थकने देती है। साहित्यकार असाधारण सृजन प्रक्रिया करते हुए सामान्य जीवन की जिम्मेदारियों को भी पूरा करता है।   उन्होंने सभी साहित्य मनीषियों से अपील कि है कि अपनी सभ्यता, संस्कृति और राष्ट्र को सही रास्ता दिखाते हुए, अपनी कलम से अपने देश की धमनियों में नए रक्त का संचार करते रहे। जरूरतमंद और वंचित वर्ग की मदद के लिए सामाजिक चेतना को जागृत औऱ सक्रिय रखें। उन्होंने कहा कि वर्तमान पीढ़ी को देश की आजादी का इतिहास बताया जाये तथा उसका महत्व समझाया जाये। उन्होंने कहा कि देश की आजादी में बलिदानियों की भी अहम् भूमिका रही है।   कार्यक्रम में पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने कहा कि साहित्य एक विशेष विधा है। साहित्य सकारात्मक परिवर्तन का वाहक है। साहित्य के माध्यम से अपनी संस्कृति और सभ्यता को समझने में मदद मिलती है।   सांसद शंकर लालवानी ने इस अवसर पर सम्बोधित करते हुये कहा कि मध्य भारत हिन्दी साहित्य समिति का गौरवशाली इतिहास है। इस संस्था का साहित्य की सेवा में बड़ा योगदान है। कार्यक्रम में डॉ. दामोदर खड़से एवं श्री राजकुमार कुम्भज ने भी अपने विचार व्यक्त किये।

Dakhal News

Dakhal News 26 March 2022


indore,Governor appreciates ,Asia

इंदौर। राज्यपाल मंगु भाई पटेल ने शनिवार को अपने इंदौर प्रवास के दौरान यहाँ स्थापित एशिया के सबसे बड़े तथा अनूठे बायो सीएनजी प्लांट का अवलोकन किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा लोकार्पित किये गये इस प्लांट की उन्होंने मुक्तकंठ से सराहना की और कहा कि यह प्लांट कूड़े-कचरे के व्यवस्थित निपटान तथा मूल्य संवर्धन का बेहतर उदाहरण है। यह प्लांट वेस्ट टू वेल्थ के संकल्प को साकार करने की दिशा में बड़ा कदम है।   राज्यपाल पटेल शनिवार को देवगुराड़िया रोड़ स्थित ट्रेचिंग ग्राउण्ड पहुँचे और उन्होंने बायो सीएनजी प्लांट का अवलोकन किया। इस दौरान कलेक्टर मनीष सिंह तथा नगर निगम आयुक्त प्रतिभा पाल उनके साथ थे। राज्यपाल ने नगर निगम द्वारा पीपीपी मॉडल पर स्थापित किये गये बायो सीएनजी प्लांट की कार्यप्रणाली को देखा। वे प्लांट के कन्ट्रोल रूम भी पहुँचे, यहाँ उन्होंने कचरे से सीएनजी बनाये जाने की प्रक्रिया समझी।   उन्होंने कचरे को अलग-अलग करने की प्रक्रिया को भी देखा। साथ ही वे बायो रेमेडाइज्ड ग्रीन बेल्ट में ट्रीटेड वेस्ट वॉटर के उपयोग से लहलहा रहे वृक्षों के बीच भी पहुँचे। यहाँ उन्होंने बैठकर प्रकृति के सौंदर्य का आनंद लिया। श्री पटेल ने इस प्रयासों की सराहना की और कहा कि अनुपयोगी जल का किस तरह बेहतर उपयोग किया जा सकता है, यह सीख इस उद्यान से ली जा सकती है।   कलेक्टर मनीष सिंह ने राज्यपाल पटेल को इस प्लांट के बारे में जानकारी दी और बताया कि यह प्लांट 550 टन प्रतिदिन क्षमता का है। यह गीले कचरे को पूरी तरह उपचारित करने में सक्षम है। शहरी गीले कचरे का प्रसंस्करण करने वाला एशिया का सबसे बड़ा प्लांट है। इस प्लांट ने अपना कार्य प्रारंभ कर दिया है। इस प्लांट को 15 माह के रेकार्ड समय में पूरा किया गया है। यह समयबद्ध कुशल परियोजना क्रियान्वयन का एक बेहतर उदाहरण है। इस प्लांट से जहाँ एक ओर बायो सीएनजी मिलेगी, वहीं दूसरी ओर कार्बन डाईऑक्साइड के उत्सर्जन में कमी उर्वरक के रूप में जैविक खाद, हरित उर्जा आदि के रूप में कई पर्यावरणीय लाभ मिलने की उम्मीद है।   नगर निगम आयुक्त प्रतिभा पाल ने राज्यपाल को परियोजना क्रियान्वयन के संबंध में विस्तार से जानकारी दी और बताया कि पीपीपी मॉडल का यह बेहतर उदाहरण है। नगर निगम द्वारा इस प्लांट के लिये जमीन दी गयी है। प्लांट में डेढ़ सौ करोड़ रूपये का निवेश संचालनकर्ता एजेंसी द्वारा किया गया है। इससे नगर निगम को ढ़ाई करोड़ रुपये प्रति वर्ष की रायल्टी मिलेगी और रियाती दरों पर सिटी बसों के संचालन के लिये बायो सीएनजी प्राप्त होगी। प्लांट से जैविक खाद भी प्राप्त होगी। वेस्ट टू वेल्थ तथा स्वच्छ भारत मिशन की दिशा में यह बड़ा कदम है।    

Dakhal News

Dakhal News 26 March 2022


bhopal, Kamleshwar Patel ,targeted ,state government

भोपाल। पूर्व मंत्री एवं विधायक कमलेश्वर पटेल ने प्रदेश की भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा है। शनिवार को प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कमलेश्वर पटेल ने कहा है कि प्रदेश की भाजपा सरकार दो साल खुशहाली, प्रगति और उन्नति का राग अलाप रही है, लेकिन 13 साल में सरकार ने क्या किया वह क्यों नहीं बताती। इसलिए तो बीते विधानसभा चुनाव में जनता ने भाजपा को नौ-दो ग्यारह कर दिया था। भाजपा नये-नये स्लोगन लाकर प्रदेश की जनता को भ्रमित कर रही है। पूर्व मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह आजकल तो बुलडोजर मामा भी बन गए हैं। उनकी पिछले कई वर्षों से प्रदेश में सरकार है आप माफियाओं पर कार्रवाई क्यों नहीं करते। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि आप की सरकार माफिया के रूप में काम कर रही है, खनन माफिया, भू-माफिया, शिक्षा माफिया, शराब माफिया, तरह-तरह के माफिया काम कर रहे हैं। इन पर आप कार्रवाई क्यों नहीं करते हैं। प्रदेश में बेरोजगारी चरम पर है मध्य प्रदेश के जो शिक्षित बेरोजगार हैं, वे दर-दर की ठोकरे खाने को मजबूर हैं।   कमलेश्वर पटेल ने कहा कि पिछले 1 सप्ताह से चयनित शिक्षक भाई-बहन सडक़ पर हड़ताल कर रहे हैं, यह प्रदेश का दुर्भाग्य है कि भाजपा सरकार शोक स्वरूप इन्हें मुंडन कराने पर विवश कर रही है। चयनित शिक्षकों को नौकरी ना देना, सरकार की ओबीसी विरोधी नीति अपनाकर युवाओं के साथ छलावा कर रही है। वहीं उच्च माध्यमिक शिक्षक भर्ती में व्याख्याता पद हेतु जीव विज्ञान विषय के तहत आने वाले सह विषयों को शामिल नहीं करने पर उच्च शिक्षित युवा शक्ति सडक़ों पर अनशन कर धरना देने के लिए बाध्य हो रही है।   पचमढ़ी में हुई कैबिनेट पर कसा तंज   पूर्व मंत्री पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री आज पचमढ़ी में मंत्रियों के साथ वन बिहार कर रहे हैं, मुख्यमंत्री जी फोटो सेशन करके क्या इवेंट करते रहेंगे या प्रदेश के 7.50 करोड़ जनता के हित के लिए कोई कार्य करेंगे। प्रदेश को एक नया दौर देखने को मिल रहा है, निराश्रितों की पेंशन को भी इवेंट बनाया जा रहा है, प्रदेश के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के वेतन को भी इवेंट करके एक क्लिक पर डालेंगे, मनरेगा के मजदूरों के भुगतान को भी इसी प्रकार का इवेंट बनाएंगे। उन्होंने कहा कि एक पुस्तक में लिखा है कि शासक जनता का ध्यान जनहित के मुद्दों से हटाने के लिए तमाशा करते रहें इसी प्रकार का तमाशा देश एवं प्रदेश में भाजपा द्वारा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आप जो कैबिनेट में चिंतन कर रहे हैं, इसमें ऐसा नहीं है कि सरकारी गाडिय़ां नहीं गई है, सभी मंत्रियों की गाडिय़ां गई है, पूरा स्टाफ गया है। पचमढ़ी का एक-एक होटल बुक किया गया है। कैबिनेट में कितना खर्चा होगा।

Dakhal News

Dakhal News 26 March 2022


bhopal, Mati-Kala, country

भोपाल। प्रदेश के कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्री गोपाल भार्गव ने कहा कि माटी-कला देश की प्राचीनतम शिल्प-कला है। वर्तमान में माटी-कला के क्षेत्र में कार्य करने वाले शिल्पियों को आर्थिक मदद के साथ कार्य-क्षमता वृद्धि के लिये प्रशिक्षण शिविर आयोजित किये जाने की आवश्यकता है। उन्होंने उत्पादित सामग्री को बाजार मुहैया कराने के लिए विस्तृत कार्य-योजना तैयार करने के निर्देश, माटी-कला बोर्ड, प्रबंधकारिणी सभा की बैठक में दिये।   मंत्री भार्गव ने कहा कि देश में प्राचीन समय से माटी शिल्प के उत्पादों का उपयोग किया जाता रहा है। कुम्हार समाज के लोग माटी-कला के क्षेत्र में परम्परागत रूप से विशेषज्ञता रखते हैं। इनकी कला को आधुनिक बाजार की डिमांड के अनुसार तैयार कराये जाने की जरूरत है। उन्होंने माटी-कला के उत्पादन, प्रशिक्षण और मार्केटिंग की विस्तृत कार्य-योजना तैयार कराने के निर्देश दिये हैं।   माटी-कला बोर्ड की मुख्य कार्यपालन अधिकारी अनुभा श्रीवास्तव ने बोर्ड का वार्षिक प्रतिवेदन और गतिविधियों की जानकारी दी।

Dakhal News

Dakhal News 25 March 2022


bhopal, Film festival,platform , eternal truth, Usha Thakur

भोपाल। प्रदेश की संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री ऊषा ठाकुर ने कहा कि चित्र भारती फिल्मोत्सव शाश्वत सत्य और जन-साधारण की समस्याओं के समाधान का मंच बनके उभरा है। फिल्म समाज को दिशा देने का सशक्त माध्यम है। संस्कृति मंत्री ऊषा ठाकुर शुक्रवार देर शाम माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय, बिसनखेडी में चित्र भारती फिल्म उत्सव के चतुर्थ संस्करण के उद्घाटन समारोह को संबोधित कर रही थी। उन्होंने कहा कि हम सभी को अपने घर में मुख्य स्थान पर क्रांतिकारियों का चित्र लगाने चाहिए। रोज उस चित्र को देखने से हमारा चित्त भी राष्ट्रप्रेम से भर उठेगा। हमारे चित्त की वृत्ति वैसी बनेगी। उन्होंने कहा कि द कश्मीर फाइल्स जैसी फ़िल्म देखकर भूल नहीं जाना, बल्कि सजग सिपाही बनना और ध्यान रखना कि आसपास इस तरह की घटना दोबारा न होने पाए। इससे पहले मंत्री उषा ठाकुर, प्रसिद्ध फ़िल्म अभिनेता अक्षय कुमार और फिल्म निर्देशक विवेक रंजन अग्निहोत्री ने दीप प्रज्ज्वलित कर चित्र भारती फिल्म उत्सव का शुभारम्भ किया। इस मौके पर आयोजन समिति के अध्यक्ष दिलीप सूर्यवंशी, भारतीय चित्र साधना के अध्यक्ष प्रो. बीके कुठियाला, पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. केजी सुरेश भी उपस्थित रहे। इस अवसर पर फ़िल्म पर केंद्रित दो विशेषांकों एवं मध्यप्रदेश के फ़िल्म कलाकारों पर केंद्रित डायरेक्टरी का विमोचन भी किया गया। देश ने 70 साल ऐसे प्रधानमंत्री की प्रतीक्षा की जिन्होंने स्वच्छता के प्रति किया देश को जागरूक : अक्षय कुमार   समारोह में फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार ने कहा कि देश ने 70 साल तक एक ऐसे प्रधानमंत्री का इंतजार किया, जो यह बता सके कि हर घर में शौचालय हो। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वच्छता अभियान से ही इस महत्वपूर्ण मुद्दे के बारे में जागरूकता आयी है। उन्होंने कहा कि सिनेमा मनोरंजन का माध्यम है लेकिन उसका उद्देश्य सिर्फ मनोरंजन हो, ऐसा नहीं है। कुछ फिल्में सच बयान करती हैं और सामाजिक संदेश भी देती हैं। इस अवसर पर उन्होंने अपनी उन फिल्मों का उल्लेख किया जो सामाजिक मुद्दों पर बनी हैं। उन्होंने कहा कि विवेक अग्निहोत्री की फ़िल्म 'द कश्मीर फाइल्स' ने देश को झकझोर दिया है। अक्षय कुमार ने कहा कि फ़िल्म निर्माता अपनी फिल्मों के माध्यम से ऐसी कहानी लेकर आएँ जो देश निर्माण में सहयोगी बनें। चित्र भारती के माध्यम से यह विचार देश के कोने-कोने में पहुँचे। असफलताएँ हमारे जीवन का हिस्सा हैं, लेकिन असफलताओं के आगे हमें अपनी हिम्मत नहीं हारनी चाहिए। फिल्मों के माध्यम से आगे बढ़ाएं भारत विमर्श : विवेक अग्निहोत्री फ़िल्म निर्देशक विवेक अग्निहोत्री ने कहा कि चित्र भारती सिनेमा के क्षेत्र में महत्वपूर्ण कार्य कर रहा है। राष्ट्रीय विचार को बढ़ाने के इस अभियान को गति देना चाहिए। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर को लेकर अब तक बहुत फिल्में बनाई गईं, लेकिन किसी ने वास्तविकता को नहीं दिखाया। अब समय आ गया है कि फिल्मों के माध्यम से भारत के विमर्श को आगे बढ़ाया जाए। उन्होंने कहा कि चित्र भारती फ़िल्म फेस्टिवल में आने वाले युवा फ़िल्म निर्माता यह कर सकते हैं। अग्निहोत्री ने अगले 5 साल तक 51-51 हजार रुपये वार्षिक स्कॉलरशिप देने की घोषणा की। भारतीय साहित्य, सभ्यता और सिनेमा पर काम करने के लिए तीन छात्राओं को यह छात्रवृत्ति दी जाएगी। उन्होंने कहा कि वे नरसंहार पर केंद्रित संग्रहालय भी बनाएंगे। भारतीय चित्र साधना के अध्यक्ष प्रो. बीके कुठियाला ने बताया कि चित्र भारती फ़िल्म फेस्टिवल के पाँच श्रेणियों में प्रत्येक विजेताओं को पुरस्कार में अक्षय कुमार की तरफ से एक-एक लाख रुपये अतिरिक्त दिया जाएगा। सिनेमा में भारतीय मूल्यों को प्राथमिकता मिले, ऐसा वातावरण बनाने का प्रयास चित्र भारती फ़िल्म उत्सव के माध्यम से किया जा रहा है। स्वागत भाषण पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. केजी सुरेश ने दिया। समारोह का शुभारंभ संस्कृत बैंड 'ध्रुवा' और नर्मदाष्टकम पर नृत्य प्रस्तुति के साथ किया गया। संचालन विनय उपाध्याय ने किया और आयोजन समिति के सचिव अमिताभ सोनी ने आभार माना।

Dakhal News

Dakhal News 25 March 2022


ratlam, Kamal Nath

रतलाम। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राजपालसिंह सिसौदिया ने यहां बताया कि मुख्यमंत्री शिवराजसिंह के नेतृत्व में प्रदेश लगातार आर्थिक विकास करते हुए सभी क्षेत्रों में प्रगति कर रहा है। जहां कमलनाथ की सरकार कमीशन की सरकार थी वहीं यह सरकार मिशन की सरकार है। विभिन्न माफियाओं तथा आपराधिक तत्वों के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है। मुख्यमंत्री का उद्देश्य है मध्यप्रदेश शांति का टापू बने तथा स्वर्णिम मध्यप्रदेश व आत्मनिर्भर प्रदेश बने, ताकि समाज के हर वर्ग में खुशहाली का माहौल उत्पन्न हो। सिसौदिया मुख्यमंत्री शिवराजसिंह के चौथे कार्यकाल के दो वर्ष पूर्ण होने पर यहां संवाददाताओं से चर्चा करते हुए प्रदेश सरकार की उपलब्धियों का जिक्र कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कमलनाथ सरकार द्वारा बंद की गई तथा कोरोना काल में प्रभावित योजनाओं को फिर से शुरू किया जा रहा है। इनमें तीर्थदर्शन , कन्यादान योजना प्रमुख रूप सेे शामिल हैं। गुण्डागर्दी के माहौल का सफाया किया उन्होंने कहा कि सरकार गुंडा माफियाओं के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रही है, प्रदेश में सिम्मी के नेटवर्क, नक्सलियों के प्रभाव, डाकुओं के दबदबे और गुण्डागिर्दी के माहौल का सफाया किया गया है। पिछले दो वर्षों में विभिन्न माफियाओं की कमर तोड़कर 2 हजार 450 से भी अधिक आरोपियों के विरूद्ध कार्रवाई करते हुए शासन ने 21 हजार एकड़ से अधिक शासकीय भूमि को मुक्त कराया है। जिससे प्रदेश में शांति और सद्भाव का माहौल उत्पन्न हो रहा है। अग्रणी राज्यों में शामिल हुआ मध्यप्रदेश सिसौदिया ने कहा कि प्रदेश आज अग्रणी राज्यों में शामिल हो चुका है। प्रदेश की आर्थिक व्यवस्था निरंतर सुधार पर है। सकल घरेलू उत्पाद जीडीपी निरंतर बढ़ रहा है। वर्तमान प्रचलित दरों पर 19.74 प्रतिशत विकास दर हासिल करने में हम सफल हुए हैं जो देश में सर्वाधिक है। राज्य में प्रति व्यक्ति आय बढ़कर 1 लाख 24 हजार प्रतिवर्ष से भी अधिक हो गई है। कोरोना संकट काल के दौरान प्रगति की रफ्तार प्रभावित हुई थी उसके बावजूद भी प्रदेश सरकार ने किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीदी कर देश में नया रिकार्ड कायम किया है। प्रधानमंत्री सड़क योजना के क्रियान्वयन में ,राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू करने में, सुकन्या समृद्धि योजना में, मातृ वंदना योजना के क्रियान्वयन में , अनुसूचित जनजाति परिवारों को मनरेगा से रोजगार दिलाने में प्रदेश देश में सबसे आगे है। इसी प्रकार विभिन्न क्षेत्रों में भी प्रदेश अग्रणीय स्थान बनाए हुए है। स्वातंत्र्य विधेयक लागू किया गया उन्होंने बताया कि प्रदेश उन चुनिंदा राज्यों में से एक है जहां धर्म स्वातंत्र्य विधेयक लागू किया गया है। किसी भी महिला को जबरन डराकर बहलाफुसलाकर, झूठ बोलकर, धोखा देकर न तो धर्म परिवर्तन किया जा सकता है और ना ही उसके साथ विवाह किया जा सकता है। इतना ही नहीं हमारी सरकार में मासूम बच्चियों के साथ बलात्कार करने वालों को फांसी देने का प्रावधान किया है। संस्थाओं में जनप्रतिनिधियों को जल्द ही बिठाया जाएगाएक प्रश्न के जवाब में श्री सिसौदिया ने कहा कि जिन संस्थाओं के चुनाव नहीं हुए हैं तथा जिन संस्थाओं में जनप्रतिनिधियों को बिठाया जाना है उसकी प्रक्रिया चल रही है। जल्द ही ऐसी संस्थाओं में जनप्रतिनिधियों को बिठाया जाएगा। जो समितियां रिक्त हैं उनमें भी मनोनयन किए जाने की तैयारी चल रही है। उन्होंने कहा कि जहां तक अफसरशाही हावी होने का सवाल है तो हम समान रुप से देखते हैं कि कहीं किसी के साथ अन्याय न हो, चाहे वह कार्यकर्ता हो या अन्य सभी को सम्मान की दृष्टि से देखा जाना चाहिए। पत्रकार वार्ता में ग्रामीण विधायक दिलीप मकवाना, सहायक प्रदेश मीडिया प्रभारी सचिन सक्सेना, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य अशोक पोरवाल, महामंत्री द्वय प्रदीप उपाध्याय,निर्मल कटारिया, पूर्व महामंत्री मनोहर पोरवाल, जिला मीडिया प्रभारी अरूण राव , सहायक मीडिया प्रभारी अरूण त्रिपाठी सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 25 March 2022


bhopal,Chief Minister Chouhan ,planted

भोपाल । मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को नई दिल्ली प्रवास के दौरान मध्यांचल भवन परिसर में ‘अशोक’ का पौधा लगाया। मुख्यमंत्री चौहान वर्ष 2021 की नर्मदा जयंती से निरंतर प्रतिदिन पौध-रोपण कर रहे हैं। मुख्यमंत्री द्वारा प्रदेशवासियों को पर्यावरण-संरक्षण और प्रत्येक नागरिक को वर्ष में कम से कम एक पौधा लगाने के लिये भी प्रोत्साहित किया जा रहा है।   मुख्यमंत्री चौहान ने ट्वीट कर कहा कि "आज नई दिल्ली स्थित मध्यांचल भवन परिसर में ‘अशोक’ का पौधा लगाया। पौधरोपण से धरती को समृद्ध करने और अपने मानवीय कर्तव्य को पूर्ण करने का जो अप्रतिम संतोष प्राप्त होता है, वह अद्वितीय है। आप भी वृक्षों की सेवा व पौधरोपण का संकल्प लें। आइये, मिलकर धरा को समृद्ध करें।"

Dakhal News

Dakhal News 24 March 2022


bhopal, Former minister

भोपाल। भोपाल में अनिश्चितकालीन धरना दे रहे चयनित शिक्षकों के धरना स्थल पर गुरुवार को पूर्व मंत्री एवं कांग्रेस विधायक कमलेश्वर पटेल पहुंचे। यहां उन्होंने धरना दे रहे चयनित शिक्षकों की समस्याओं को ध्यानपूर्वक सुना और उनकी लड़ाई में कांग्रेस का साथ देने का आश्वासन दिया। कमलेश्वर पटेल ने धरना प्रदर्शन कर रहे शिक्षकों से कहा कि कांग्रेस आप सभी के साथ है। मप्र की भाजपा सरकार युवाओं की प्रतिभाओं का निरंतर दोहन और शोषण कर रही है। चयनित शिक्षक वर्ग -1, वर्ग-2 परीक्षाओं के ओबीसी शिक्षकों को 27 प्रतिशत आरक्षण का लाभ नहीं दिया जा रहा है। वहीं दूसरी ओर उच्च माध्यमिक शिक्षक भर्ती में व्याख्याता पद हेतु जीव विज्ञान विषय के अंतर्गत आने वाले समस्त सह विषय एलाइड को मान्य नहीं किया। इस बात से दुखी होकर युवा शक्ति, प्रतिभाएं सडक़ पर प्रदर्शन कर धरना देने के लिए मजबूर हो रहे हैं। पर्वू मंत्री ने कहा कि यह दुर्भाग्य है कि प्रदेश की भाजपा सरकार चयनित शिक्षकों को शोक के रूप में मुंडन कराने के लिए विवश कर रही है। अन्याय के विरुद्ध कांग्रेस खड़ी है, कांग्रेस चयनित शिक्षकों के साथ हैं। कमलेश्वर पटेल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार पूरी तरह आरएसएस के एजेंडे पर चल रही है और ओबीसी को उसके अधिकारों से वंचित कर रही है। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी चयनित शिक्षकों को उनका अधिकार दिलाकर रहेगी।

Dakhal News

Dakhal News 24 March 2022


bhopal, Water released ,canal for moong crop ,

भोपाल। नर्मदापुरम जिले के ग्राम तवा नगर में बुधवार को आयोजित कार्यक्रम में जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट एवं कृषि मंत्री कमल पटेल ने हरदा एवं नर्मदापुरम जिलों के किसानों की ग्रीष्मकालीन मूंग फसल की सिंचाई के लिए नहर से पानी छोडऩे संबंधी कार्यक्रम में शामिल हुए। इस अवसर को तवा महोत्सव के रूप में मनाया गया। कार्यक्रम में नर्मदापुरम क्षेत्र के विधायक डॉ. सीताशरण शर्मा, सोहागपुर विधायक विजय पाल सिंह, सिवनी मालवा विधायक प्रेम शंकर वर्मा, टिमरनी विधायक संजय शाह एवं जिला भाजपा अध्यक्ष हरदा अमर सिंह मीणा, संतोष पारिख भी मौजूद थे। कार्यक्रम के अंत में रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित हुए। इस कार्यक्रम में हरदा एवं नर्मदापुरम जिले के किसान बड़ी संख्या में मौजूद थे। जल संसाधन मंत्री सिलावट एवं कृषि मंत्री पटेल ने कार्यक्रम से पूर्व विधि विधान से पूजन कर किसानों की उपस्थिति में तवा बांध से पानी छोड़ा। कार्यक्रम में संबोधित करते हुए कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि कोरोना काल में मूंग की फसल के लिए तवा नहर से पानी छोडऩे से किसानों को करोड़ों रुपए का लाभ हुआ था। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में जब पूरे देश में लोक डाउन था, ऐसे में तवा नहर से पानी मिलने से किसानों को खेतों में काम करने का अवसर मिला, साथ ही मजदूरों को भी खेतों में रोजगार मिला। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में जितने विकास कार्य देश में गत 7 सालों में हुए हैं, उतने उससे पहले के 60 वर्षों में नहीं हुए। कृषि मंत्री पटेल ने कहा कि स्वच्छ भारत का जो सपना राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने देखा था, उसे हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ही साकार किया है। उन्होंने खुद हाथ में झाड़ू उठा कर नागरिकों के बीच स्वच्छता की अलख जगाई है। प्रधानमंत्री मोदी ने देश के करोड़ों आवासहीनों को पक्के मकान की सौगात प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत दिलाई है। उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत योजना के तहत गरीब परिवारों को 5 लाख रूपये तक के मुफ्त इलाज की सुविधा कई गरीब परिवारों के लिए वरदान की तरह सिद्ध हुई है।   कृषि मंत्री पटेल ने कहा प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में खेती को लाभ का धंधा बनाने का जो संकल्प लिया है, उस दिशा में सरकार नित नए काम कर रही है। खेती की लागत को घटाया गया है तथा फसल का किसान को अच्छा मूल्य दिलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि चना, मूंग एवं गेहूं का समर्थन मूल्य बढऩे से बाजार में इन फसलों के मूल्य में वृद्धि हुई है, जिससे किसानों को बहुत आर्थिक लाभ हुआ है। कृषि मंत्री पटेल ने इस अवसर पर कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से अनुरोध कर के तवा नहर की लाइनिंग के लिए 800 करोड़ रुपए स्वीकृत कराए हैं। जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को उन्होंने निर्देश दिए कि वे सुनिश्चित करें कि टेल एंड तक नहर का पानी पहुंचे और अंतिम छोर के किसान को भी नहर का लाभ मिले।पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान गत दिनों हरदा प्रवास के दौरान हरदा जिले को शत प्रतिशत सिंचित जिला बनाने की घोषणा कर चुके हैं। कृषि मंत्री पटेल ने कहा कि तवा नगर के लोगों की पेयजल समस्या को जल जीवन मिशन के तहत पेयजल योजना स्वीकृत करके हल किया जाएगा। उन्होंने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि केसला विकासखंड के सभी किसानों को भी तवा नहर के पानी का सिंचाई में लाभ मिले, यह सुनिश्चित किया जाए।

Dakhal News

Dakhal News 23 March 2022


bhopal, Congress told ,Kamal Nath , real bulldozer man

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने कमलनाथ को असली बुलडोजर मैन बताया है। उन्होंने कहा कि इस प्रदेश में वह कमलनाथ ही है, जिन्होंने अपने 15 माह के कार्यकाल में ही दृढ़ इच्छाशक्ति का परिचय देते हुए, निष्पक्ष ढंग से माफियाओं के खिलाफ अपना बुलडोजर प्रदेश भर में चलाया, मिलावटखोरों के खिलाफ अभियान चलाया, उनके बुलडोजर के डर से तो कई माफिया प्रदेश छोडक़र भाग गए थे। कई माफियाओं को उन्होंने अपनी सरकार में गड्डा कर जमीन में गाड़ दिया था और भाजपा ने इन्हीं माफिय़ाओं के साथ मिलकर कांग्रेस की सरकार गिरा दी और जैसे ही शिवराज सिंह मुख्यमंत्री बने तो शिवराज सरकार में यह सारे माफिया जो कांग्रेस सरकार में जमीन में गड़े थे, वह निकल कर बाहर आ गए। नरेन्द्र सलूजा ने बुधवार को कहा कि यह शिवराज सरकार की सच्चाई है और वहीं शिवराज जी आज खुद को बुलडोजर मैन के रूप में अपने समर्थकों से प्रचारित करवा रहे हैं? जबकि पूरा प्रदेश इस सच्चाई को जानता है कि शिवराज जी ने माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई के बड़े-बड़े दावे किए थे, उन्हें 10 फीट गहरे गड्ढे में गाढऩे की बात की थी, लेकिन आज तक एक भी बड़े माफिया के ऊपर कोई कार्यवाही नहीं हुई है। शिवराज जी सिर्फ मुद्दों से भटकाने के लिए, जनता को गुमराह करने के लिए कमलनाथ की नकल करने में लगे हैं। जबकि पूरा प्रदेश जानता है कि शिवराज जी के बुलडोजर की एक आंख बंद है और उनका बुलडोजर सिर्फ राजनीतिक फायदे के हिसाब से चलता है। कांग्रेस नेता ने आरोप लगाते हुए कहा कि सीएम शिवराज का बुलडोजर भोपाल के बैरसिया की उस भाजपा नेत्री पर नहीं चलता है, जिसकी गौशाला में सैकड़ों गायों की भूख-प्यास से तड़प कर मौत हो गई, शिवराज जी का बुलडोजर उन्हीं के संगठन महामंत्री के भाई पर नहीं चलता है, जिन पर अशोकनगर में राशन में हेराफेरी का आरोप है, शिवराज जी का बुलडोजर उन्हीं के विधायक रामेश्वर शर्मा के बैरागढ़ के समर्थक पर नहीं चलता है, जिसके भाई पर एक नाबालिग से यौन शोषण का आरोप है। शिवराज जी का बुलडोजर राघवजी से लेकर प्रदीप जोशी, डिंडोरी के गैंगरेप वाले भाजपा नेता और हरसूद के उन भाजपा नेताओं पर नहीं चलता है, जो इंदौर में एक स्पा सेंटर में थाईलैंड की लड़कियों के साथ पकडे गये थे। शिवराज जी का बुलडोजर व्यापम के घोटालेबाज़ो पर, पेंशन के घोटालेबाजो पर, पौधारोपण के घोटाले बाजों, डंपर के घोटालेबाज़ो पर, ई-टेंडर के घोटाले बाजों पर, सिरोंज के कन्या विवाह योजना के घोटाले बाजों पर, भिंड में ओलावृष्टि के मुआवजे हड़पने वालों पर नहीं चलता है, गौशालाओं के अनुदान खाने वालों पर नहीं चलता है, गौमाताओं की मौत के दोषियों पर नहीं चलता है? यह कैसा बुलडोजर जो पार्टी देखकर, व्यक्ति देखकर, समय देखकर, चेहरा देखकर चलता है?

Dakhal News

Dakhal News 23 March 2022


bhopal, CM Chouhan, pays homage

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को देश के लिए सर्वोच्च बलिदान देने वाले अमर क्रांतिकारी भगत सिंह, राजगुरू और सुखदेव को शहीद दिवस पर श्रद्धांजलि अर्पित की। मुख्यमंत्री चौहान ने अपने निवास कार्यालय स्थित सभागार में शहीदों के चित्र पर माल्यार्पण कर पुष्पांजलि अर्पित की। खजुराहो सांसद तथा प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वी.डी. शर्मा और संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा ने भी शहीदों के चित्र पर माल्यार्पण किया।   मुख्यमंत्री चौहान ने ट्वीट के माध्यम से कहा कि "शहीद-ए-आजम भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव के बलिदान दिवस पर उनके चरणों में विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। आप जैसे वीर सपूतों का आदर्श जीवन और पुण्य विचार सदैव राष्ट्र की सेवा एवं प्रगति व उन्नति के लिए प्रत्येक भारतवासी को प्रेरित करते रहेंगे।"   उल्लेखनीय है कि अमर शहीद सरदार भगत सिंह को भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन के सबसे प्रभावशाली क्रांतिकारियों में से एक माना जाता है। भगत सिंह एक अध्ययनशील विचारक, अच्छे वक्ता और लेखक भी थे। छोटी उम्र में भगत सिंह असहयोग आंदोलन से जुड़ गए। जलियांवाला बाग हत्याकांड ने उन पर बड़ा गहरा प्रभाव डाला। उन्होंने चंद्रशेखर आजाद के साथ मिलकर क्रांतिकारी संगठन तैयार किया। लाहौर षडयंत्र मामले में लाला लाजपत राय की मौत का बदला लेने के लिए अंग्रेज पुलिस उप अधीक्षक जे. पी. सांडर्स को मौत के घाट उतारने में भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु को फाँसी की सजा सुनाई गई। सरदार भगत सिंह ने दिल्ली स्थित ब्रिटिश भारत की तत्कालीन सेंट्रल असेंबली के सभागार में 8 अप्रैल 1929 को अंग्रेज सरकार को जगाने के लिए बम और पर्चे फेंके थे। भगत सिंह को 23 मार्च 1931 की शाम 7 बजे सुखदेव और राजगुरु के साथ फाँसी पर लटका दिया गया।   अमर शहीद सुखदेव स्वतंत्रता संग्राम के प्रमुख क्रांतिकारी थे। उन्होंने लाहौर में नौजवान भारत सभा आरंभ की। सुखदेव को भी लाहौर षड़यंत्र के अंतर्गत अंग्रेज पुलिस उप अधीक्षक जे.पी. सांडर्स को मौत के घाट उतारने के लिए राजगुरु और भगत सिंह के साथ मौत की सजा सुनाई गई। वे भी लाहौर सेंट्रल जेल में 23 मार्च 1931 को सांय काल 7 बजे राजगुरु और भगत सिंह के साथ हँसते-हँसते फाँसी के फंदे पर झूल गए।   शिवराम हरी राजगुरु का जन्म 24 अगस्त 1908 को पुणे जिले के खेड़ा गाँव में हुआ था। वाराणसी में विद्या अध्ययन करते हुए राजगुरू का संपर्क अनेक क्रांतिकारियों से हुआ। चंद्रशेखर आजाद से वे इतने अधिक प्रभावित हुए कि हिंदुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकन आर्मी से तत्काल जुड़ गए। राजगुरू एक अच्छे निशानेबाज भी थे। सांडर्स का वध करने में इन्होंने भगत सिंह तथा सुखदेव का पूरा साथ दिया। राजगुरू ने 23 मार्च 1931 को भगत सिंह तथा सुखदेव के साथ लाहौर सेंट्रल जेल में फाँसी के तख्ते पर झूल कर अपने नाम को भारत के अमर शहीदों की सूची में प्रमुखता से दर्ज करा दिया।

Dakhal News

Dakhal News 23 March 2022


bhopal,  initiative , Minister Silavat , World Water Day

भोपाल। जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट की पहल पर मंगलवार को इंदौर के प्रबुद्ध जनों ने जल संरक्षण की शपथ लेते हुए जागरूकता का संदेश दिया। विश्व जल दिवस के अवसर पर अग्रवाल नगर के उद्यान में आयोजित कार्यक्रम के दौरान जल संरक्षण की शपथ ली गई।   मंत्री सिलावट ने कहा की आज प्रदेश में जल संरक्षण और बचाव के लिए गर्मी के प्रारंभ से प्रयास करने होंगे। इसके लिए जल संसाधन विभाग द्वारा तालाबों के गहरीकरण, पौधारोपण और संरक्षण का कार्य भी शुरू किया जा रहा है। आम जनता की सहभागिता से इस अभियान को जन आंदोलन बनाया जायेगा और ग्रामीण क्षेत्रों के साथ शहरी क्षेत्रों में भी घर-घर इसकी अलख जगाई जायेगी।   इंदौर में आयोजित जल संरक्षण अभियान के लिए आज प्रबुद्धजनों ने इसकी शपथ ली और इसको जन-जन तक पहुँचने लिए आम जनता को इससे जुड़ने का अभियान दिया।   इस अवसर पर पद्मश्री जनक पाल्टा मैकगिलिगन, पद्मश्री सुशील दोशी, पद्मश्री भालू मोंडे, अशोक सोजतिया, मीर रंजन नेगी, पुरषोत्तम पसारी, एनएन गांधी, श्रीमंत अन्ना महाराज, देवी अहिल्या विश्वविद्यालय की कुलपति रेणु जैन ने विश्व जल दिवस पर शपथ लेकर लोगो से जल सरंचानाओ का सम्मान करते हुए उन्हें जन उपयोगी और जीवन संरक्षण के साथ जोड़ने की अपील की। इस अवसर पर उपस्थित नागरिकों को भी जल संरक्षण की शपथ दिलायी गई।   सिलावट एवं उपस्थित जनों द्वारा वृक्षारोपण भी किया गया। मंत्री सिलावट ने कहा कि पानी का बचाव ही पानी की उत्पत्ति है। हम सभी को पानी की एक-एक बूंद के महत्व को समझना बहुत जरूरी है और इसके साथ ही सभी के लिए जल के महत्व को जानने, समझने और उसको संरक्षित करने के लिए संकल्प लेने का दिन है।

Dakhal News

Dakhal News 22 March 2022


bhopal, Chief Minister Chouhan, planted Gulmohar , Saptparni saplings

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को राजधानी भोपाल के स्मार्ट उद्यान में गुलमोहर का पौधा लगाया। मुख्यमंत्री चौहान के साथ परपीड़ा सेवा समिति के एस.के. कोहली, राधेश्याम साहू, वल्लभ डोंगरे और डी.सी. भट्ट ने सप्तपर्णी का पौधा रोपा।   बता दें कि समिति, जन-सहयोग से निर्धन गरीब मरीजों के सेवा कार्य के साथ पर्यावरण और स्वच्छता के क्षेत्र में भी सक्रिय भागीदारी निभा रही है। समिति ने शहर के विभिन्न क्षेत्रों में बड़ी संख्या में पौध-रोपण भी किया है। जरूरतमंद मरीजों को महंगी दवाई और इंजेक्शन उपलब्ध कराने और विभिन्न प्रकार की जांच जैसे सीटी स्केन, एमआरआई, किडनी के ऑपरेशन में मदद करती है। साथ ही समिति द्वारा जरूरतमंद मरीजों को पौष्टिक आहार, अन्य आवश्यक सामग्री, दिव्यांगों को कृत्रिम अंग एवं उपकरण उपलब्ध कराने तथा निर्धन बच्चों की पढ़ाई की व्यवस्था एवं गरीब परिवारों को आवश्यकता पड़ने पर सहयोग किया जाता है। समिति, नेत्रदान और देहदान के लिए भी लोगों को प्रेरित कर रही है।   उल्लेखनीय है कि गुलमोहर को विश्व के सुंदरतम वृक्षों में से एक माना जाता है। गुलमोहर की पत्तियों के बीच बड़े-बड़े गुच्छों में खिले फूल, इस वृक्ष को अलग ही आकर्षण प्रदान करते हैं। गर्मी के दिनों में गुलमोहर के पेड़, पत्तियों की जगह फूलों से लदे रहते हैं। यह औषधीय गुणों से भी समृद्ध है। वहीं, सप्तपर्णी का पौधा, सदाबहार औषधीय वृक्ष है, जिसका आयुर्वेद में बहुत महत्व है। इसका उपयोग विभिन्न औषधियों के निर्माण में किया जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 22 March 2022


bhopal,20% rebate , compounding fee ,Minister Bhupendra Singh

भोपाल। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा है कि राज्य शासन द्वारा भवन अनुज्ञा से अतिरिक्त निर्माण एवं भवन अनुज्ञा के बगैर निर्माण के कम्पाउंडिंग के लिये सीमा 10 से बढ़ाकर 30 प्रतिशत की गई है। उन्होंने बताया कि राज्य शासन द्वारा नगरीय निकायों में 28 फरवरी, 2022 तक कम्पाउंडिंग (प्रशमन) प्रकरणों में शुल्क पर 20 प्रतिशत की विशेष छूट का प्रावधान किया गया था। इसकी अवधि बढ़ाकर अब 30 जून 2022 कर दी गई है। यह जानकारी सोमवार को जनसंपर्क अधिकारी राजेश पाण्डेय ने दी।   उन्होंने बताया कि अनुज्ञा के बिना भवन निर्माण एवं भवन अनुज्ञा के विरुद्ध अधिक निर्माण के प्रशमन के लिये संचालनालय, नगरीय प्रशासन एवं विकास के माध्यम से भवन अनुज्ञा के लिये संचालित ऑनलाइन सिस्टम एबीपीएएस (ऑटोमेटेड बिल्डिंग प्लान एप्रूवल सिस्टम) में प्रकरणों के ऑनलाइन प्रशमन एवं ऑनलाइन शुल्क प्राप्त करने की सुविधा उपलब्ध है। नगरीय निकायों को प्रशमन के प्रकरणों का निराकरण ऑनलाइन एबीपीएएस के माध्यम से ही करने के निर्देश दिये गये हैं।   अभी तक नगरीय निकायों को मिला 144 करोड़ 47 लाख से अधिक शुल्क नगरीय निकायों ने अनुज्ञा के बिना या प्रदान की गई अनुज्ञा के उल्लंघन में निर्मित मकानों के कंपाउंडिंग में अभी तक 12 हजार 407 प्रकरणों में कार्यवाही कर 144 करोड़ 47 लाख 58 हजार 318 रूपये की राशि शुल्क के रूप में प्राप्त की है। नगर निगम इंदौर को 75 करोड़ 54 लाख 3 हजार 528, भोपाल को 23 करोड़ 82 लाख 83 हजार 447, ग्वालियर को 13 करोड़ 41 लाख 8 हजार 467, जबलपुर को 7 करोड़ 95 लाख 3 हजार 241, रतलाम को 3 करोड़ 36 लाख 41 हजार 593, छिंदवाड़ा को 2 करोड़ 86 लाख 73 हजार 387, उज्जैन को 2 करोड़ 71 लाख 83 हजार 790, रीवा को 2 करोड़ 14 लाख 69 हजार 730, देवास को 1 करोड़ 29 लाख 7 हजार 667, सतना को 1 करोड़ 17 लाख 54 हजार 606, कटनी को 91 लाख 54 हजार 967, सिंगरोली को 83 लाख 97 हजार 362, सागर को 82 लाख 89 हजार 520, बुरहानपुर को 72 लाख 50 हजार 129, खंडवा को 67 लाख 50 हजार 591 और नगर निगम मुरैना को 47 लाख 27 हजार 772 रूपये की राशि कंपाउंडिंग शुल्क के रूप में प्राप्त हुई है। अन्य नगरीय निकायों को कुल 5 करोड़ 72 लाख 58 हजार 520 रूपये का कंपाउंडिंग शुल्क प्राप्त हुआ है।

Dakhal News

Dakhal News 21 March 2022


bhopal,Government is determined , provide remunerative price,Agriculture Minister

भोपाल/हरदा। किसान नेता एवं मध्य प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल ने सोमवार को हरदा जिले के अबगांव खुर्द गांव में सोमवार को चना उपार्जन केंद्र का शुभारंभ किया। इस मौके पर मीडिया से बातचीत करते हुए उन्होंने बताया कि 21 मार्च से प्रदेश भर में चना सरसों और मसूर फसलों की खरीदी समर्थन मूल्य पर सरकार ने शुरू कर दी है। प्रदेश सरकार ने इस बार कृषि विभाग के माध्यम से 8 लाख मैट्रिक टन से अधिक चना, 5 लाख मैट्रिक टन से ज्यादा सरसों और डेढ़ से दो लाख मैट्रिक टन मसूर खरीदी का लक्ष्य रखा है। कृषि मंत्री पटेल ने कहा कि प्रदेश में इस बार किसानों ने 50 प्रतिशत चना और 50 प्रतिशत गेहूं बोया है। चने की फसल इस बार प्रदेश में बंपर आई है। सरसों और मसूर फसलों की खरीदी रेट समर्थन मूल्य से ऊपर लेकिन चने की फसल का भी किसानों को लाभकारी मूल्य मिल सके इसके लिए हमारी सरकार कृत संकल्पित है। उन्होंने कहा कि देश और प्रदेश में भाजपा की गांव गरीब और किसानों की सरकार है। 2022 तक प्रधानमंत्री मोदी का संकल्प है कि किसानों की आय दोगुना करना है। वही 2021 में ही प्रदेश में किसानों को उनकी फसल का दोगुना दाम मिलना शुरू हो गया है।

Dakhal News

Dakhal News 21 March 2022


bhopal, Procurement of gram, lentil, mustard

भोपाल। मध्य प्रदेश में किसानों से चना, मसूर और सरसों का समर्थन मूल्य पर उर्पाजन सोमवार, 21 मार्च से प्रारंभ होगा। उपार्जन संबंधी सभी आवश्यक तैयारियां पूर्ण हो गई हैं।   कृषि मंत्री कमल पटेल ने रविवार को बताया कि रबी मौसम वर्ष 2021-22 में "प्राइस सपोर्ट स्कीम" में प्रदेश के किसानों द्वारा उत्पादित चना, मसूर, सरसों की उपज का उचित मूल्य दिलाने के लिये 21 मार्च से 31 मई तक समर्थन मूल्य पर खरीदी की जाएगी।   उन्होंने बताया कि पूर्व में यह खरीदी गेहूँ के उपार्जन के बाद की जाती थी, जिससे किसानों को मजबूरी में कम कीमत पर अपनी उपज बेचना पड़ता था। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में किसानों के हित में निर्णय लिया जाकर, गत वर्ष से उपार्जन का कार्य पहले किये जाने से किसानों को लाभ होने लगा है।   कृषि मंत्री पटेल ने कहा कि समर्थन मूल्य पर 21 मार्च से खरीदी होने पर चना, मसूर, सरसों के भाव में उछाल आएगा और गत वर्ष की भांति इस वर्ष भी समर्थन मूल्य से अधिक मूल्य पर किसानों की फसल बिकेगी, जिससे किसानों को अधिक लाभ प्राप्त होगा।

Dakhal News

Dakhal News 20 March 2022


gwalior,Energy Minister , Bhoomi Pujan , CC Road in Ward-16

ग्वालियर। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि प्रदेश सरकार बुनियादी सुविधाओं के विस्तार पर विशेष ध्यान दे रही है। हर क्षेत्र में सड़क, पानी, बिजली, शिक्षा व स्वास्थ सेवाएं सुचारू रूप से मुहैया कराने के लिये सरकार ने प्रभावी कदम उठाए हैं। जन मानस की हर सुख-सुविधा का ध्यान रखा जा रहा है।   ऊर्जा मंत्री तोमर रविवार को ग्वालियर में भूमिपूजन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने शहर के वार्ड-16 के अंतर्गत आनंद नगर गेट से आशा ब्रेड फैक्ट्री तक 17 लाख 62 हजार रुपये की लागत से बनने वाली सीसी रोड़ का भूमि पूजन किया। इस अवसर पर उन्होंने क्षेत्रीय गणमान्य नागरिकों को स्वच्छता की शपथ भी दिलाई।   मंत्री तोमर ने कहा कि वृद्धजन, महिलाओं और युवाओं को उपनगर ग्वालियर व हजीरा क्षेत्र में घूमने के लिए तिकोनिया पार्क, मनोरंजनालय पार्क और बड़ा पार्क को आकर्षक व सुव्यवस्थित बनाया गया है। बिरला नगर प्रसुतिगृह 50 बेडेड अस्पताल बनने जा रहा है, साथ ही सिविल अस्पताल का कार्य पूर्ण होने से स्वास्थ्य सेवाओं के लिए अब आपको और कहीं जाना नहीं पड़ रहा है। संजीवनी क्लीनिकों पर नि:शुल्क बेहतर इलाज मिल रहा है।   उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने हर वर्ग के हितों को ध्यान में रखते हुए कोरोना काल के 31 अगस्त 2020 तक के 1 किलोवाट तक के बिजली के बिल माफ कर दिये हैं। इसके साथ ही गर्मी में बार बार विद्युत फॉल्ट न हो, इसके लिये नये सब स्टेशन बनाये जा रहे हैं। इस अवसर पर मंडल अध्यक्ष बृजमोहन शर्मा, पूर्व पार्षद संतोष भारती, सुरेन्द्र चौहान, जगराम कुशवाह एवं जगन्नाथ सिंह सहित बडी संख्या में क्षेत्रीय नागरिक उपस्थित रहे।

Dakhal News

Dakhal News 20 March 2022


bhopal, Chief Minister Shivraj ,pays homage ,Veerangana Rani Avantibai

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवहाज सिंह चौहान ने भारत के प्रथम स्वाधीनता संग्राम में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली, 1857 की क्रांति में रेवांचल में मुक्ति आंदोलन की सूत्रधार वीरांगना रानी अवंतीबाई के बलिदान दिवस पर उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित की है। मुख्यमंत्री चौहान ने रविवार को अपने निवास कार्यालय पर उनकी प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर उन्हें नमन किया।   मुख्यमंत्री चौहान ने ट्वीट किया है कि - "देस-प्रेम की मीठौ अमरत,अपने मन में घोलो, बीर अवंतीबाई जू की, एक साथ जय बोलो।-दुर्गेश दीक्षित।" उन्होंने कहा कि "1857 की क्रांति को नई दिशा देने वाली, रेवांचल मुक्ति आंदोलन की सूत्रधार, महान वीरांगना, रानी अवंतिबाई जी के बलिदान दिवस पर उनके चरणों में विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।"   उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा कि -"मातृभूमि की सेवा के लिए अपना सम्पूर्ण जीवन होम कर देने वाली वीरांगना की गौरवगाथा सदैव अविस्मरणीय रहेगी। इस माटी का कण-कण महान वीरांगना रानी अवंतीबाई की वीरता, साहस और शौर्य गाथा से धन्य व गौरवान्वित है। आप युगों-युगों तक राष्ट्र की सेवा और सम्मान के लिए मर-मिटने की प्रेरणा देती रहेंगी।"

Dakhal News

Dakhal News 20 March 2022


bhopal, Chief Minister Chouhan ,expressed grief

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने छिंदवाड़ा और सागर जिलों में डूबने से पांच युवाओं की असामयिक मृत्यु पर दु:ख व्यक्त किया है।   छिंदवाड़ा जिले में होली पर तीन मित्र जो डेम में नहाने के लिए गए थे। उनकी डूबने से मृत्यु का समाचार है। इसी तरह सागर जिले में ग्राम बदोना कछवाह में तालाब में नहाने गए दो युवकों की डूबने से मृत्यु हो गई है।   मुख्यमंत्री चौहान ने दोनों जिलों में हुई इन घटनाओं को दु:खद बताते हुए ईश्वर से मृतकों की आत्मा की शांति और उनके परिजन को दु:ख सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना की है। मुख्यमंत्री चौहान ने दोनों जिलों के प्रशासनिक अधिकारियों को प्रभावित परिवारों की आर्थिक सहायता के निर्देश दिए हैं।

Dakhal News

Dakhal News 19 March 2022


gwalior, Former supporters, committed indecency , Congress leader

ग्वालियर। ग्वालियर में कांग्रेस नेता रश्मि पवार से आधी रात को उनके पूर्व समर्थकों ने अभद्रता और छेड़छाड़ कर दी। कांग्रेसी नेत्री ने रात को ही इसकी सूचना एसएसपी अमित सांघी को दी। सूचना मिलने पर सीएसपी विजय भदौरिया पुलिस के साथ मौके पर पहुंच गए और तीनों आरोपितों को मौके पर ही गिरफ्तार कर लिया है। कांग्रेस नेत्री महिला कांग्रेस की प्रदेश पदाधिकारी हैं और एनएसयूआई की प्रदेशाध्यक्ष रह चुकी हैं। पूर्व मंत्री नारायण सिंह के खिलाफ विधानसभा चुनाव लड़ चुकी हैं। पुलिस छेड़छाड़ के मामले की जांच कर रही है। जानकारी अनुसार महिला कांग्रेसी नेत्री रश्मि पवार के पूर्व समर्थक शरद साहू, अभिजीत तोमर व राहुल शिवहरे ने उनके कैलाश टाकीज के पास निवास पर शुक्रवार की रात 12 बजे हंगामा किया और अभद्रता की। विरोध करने पर युवकों ने रश्मि पवार को धमकी भी दी। जिसके बाद रात में उन्होंने एसएसपी से शिकायत की और इनका पूरे घटनाक्रम का वीडियो बनाकर भेजा। सूचना मिलते ही सीएसपी विजय भदौरिया पुलिस बल के साथ आए और तीनों को मौके से ही गिरफ्तार कर लिया। कांग्रेस नेत्री ने बताया कि शरद साहू कांग्रेस से जुड़ा है। पांच साल पहले तक मेरे संपर्क में था। उसके बाद उनका कोई संपर्क नहीं हैं। इन लोगों ने मेरे घर पर पड़ोसी के कहने पर ही हंगामा किया है। रात में ही मैंने तीनों आरोपित के खिलाफ छेड़छाड़ का मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने तीनों आरोपित के पकड़े जाने की पुष्टि की है।

Dakhal News

Dakhal News 19 March 2022


badwani, Seeing the replica, Shiv Kunj

बडवानी। बड़वानी में जन सहयोग से रचित पर्यावरणीय पाठशाला का दिन प्रतिदिन विकसित होता पर्यटन स्थल का स्वरूप देखकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बहुत प्रसन्न हुए। उन्होंने जिला प्रशासन की पहल पर जन सहयोग से रचित इस पर्यावरणीय पाठशाला को अनुकरणीय पहल निरूपित किया तथा कलेक्टर शिवराज सिंह वर्मा व उनकी टीम की प्रशंसा की। मुख्यमंत्री चौहान गुरुवार को बड़वानी जिले में भगोरिया उत्सव में शामिल हुए। इस अवसर पर कलेक्टर शिवराज सिंह वर्मा ने उन्हें शिवकुंज की प्रतिकृति भेंट की। कलेक्टर वर्मा ने मुख्यमंत्री चौहान को बताया कि 8 अगस्त को हरियाली अमावस्या के दिन रोपे गए सभी 30 हजार पौधे पर्याप्त सिंचाई व्यवस्था एवं सुरक्षा पाकर लहलहा रहे हैं। उन्होंने शिवकुंज पर्यटन स्थल पर विकसित किए गए अध्यात्म, ध्यान, मनोरंजन एवं बच्चों के खेल कूद के साथ-साथ विकसित किए गए रमणीय स्थलों की जानकारी दी। इस पर मुख्यमंत्री चौहान ने जल्द ही शिवकुंज पर्यटन स्थल को स्वयं आकर देखने की इच्छा जताई। उन्होंने कहा कि यह जन सहयोग से रचित पर्यटन स्थल बड़वानी जिले के लिए एक सौगात है, जहां पर्यटक यहां आने पर सदैव सुरक्षा के प्रति आश्वस्त रहते हैं। यह पर्यटन स्थल रोजगार सृजन का भी सशक्त माध्यम बने ऐसी पहल भी करने के लिए उन्होंने कलेक्टर वर्मा से कहा। शिव कुंज की प्रतिकृति भेंट करने के दौरान कैबिनेट मंत्री प्रेमसिंह पटेल, कलेक्टर वर्मा सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 17 March 2022


bhopal,least wood, used for Holika Dahan, Forest Minister Dr. Shah

भोपाल। वन मंत्री डॉ. विजय शाह ने प्रदेशवासियों को होली पर्व पर हार्दिक शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने आमजनों से अपील है कि होलिका दहन के लिए कम से कम लकड़ी का उपयोग किया जाए। इसके लिये हरे पेड़ों को नुकसान नहीं पहुंचाया जाए। रंग और गुलाल के साथ मिल-जुलकर होली का पर्व शालीनता से मनाएं।   वन मंत्री डाँ. शाह ने गुरुवार को जारी बयान में कहा है कि भारतीय सांस्कृति में होली पर्व का विशेष महत्व है। इस पर्व को समाज के सभी वर्ग मिल-जुलकर हर्ष और उल्लास के साथ मनाते हैं। इस अवसर पर होलिका दहन के लिये गांव-शहरों में विभिन्न स्थानों पर विशेष आयोजन होता है। अनुरोध है कि होलिका दहन के लिये प्रतीक स्वरूप में कम से कम लकड़ी का उपयोग किया जाए। यह आप सभी के सहयोग से ही संभव है। हरे आवरण की उपयोगिता पर्यावरण संतुलन तक ही सीमित नहीं है। अपितु यह हमारे जीवन-निर्वाह की बुनियादी आवश्यकता भी है।

Dakhal News

Dakhal News 17 March 2022


bhopal, Hitanand appointed , General Secretary , State BJP

भोपाल। भाजपा के संगठन महामंत्री सुहास भगत की अन्यत्र पदस्थापना के बाद से रिक्त पद पर नियुक्ति को लेकर चल रही कयासबाजी अब खत्म हो गई है। पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व ने हितानंद शर्मा को प्रदेश भाजपा का नया संगठन महामंत्री नियुक्त किया है। इससे पहले प्रदेश भाजपा के संगठन महामंत्री सुहास भगत की सेवाएं वापस लेते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने कुछ दिनों पूर्व उन्हें मध्य क्षेत्र का बौद्धिक प्रमुख नियुक्त कर दिया था। इसके बाद से ही संगठन महामंत्री का पद रिक्त था, जिसे लेकर मीडिया में कयास लगाए जा रहे थे। भाजपा ने सह संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा को संगठन महामंत्री नियुक्त कर इन कयासों को विराम दे दिया है। शर्मा का नियुक्ति पत्र बुधवार को जारी कर दिया गया है, जिस पर पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और मुख्यालय प्रभारी अरुण सिंह के हस्ताक्षर हैं।

Dakhal News

Dakhal News 17 March 2022


bhopal,Congress celebrate , date of resignation , Kamal Nath

भोपाल। मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश उपाध्यक्ष एवं संगठन प्रभारी चन्द्रप्रभाष शेखर ने बुधवार को प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में एक पत्रकार वार्ता को संबोधित किया। पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि 15 वर्षों के बाद मध्य प्रदेश की जनता ने सरकार बदलने का निर्णय लेकर कमलनाथ के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी को प्रदेश की बागडौर सौंपी थी, परन्तु भाजपा ने धनबल और खरीद-फरोख्त की राजनीति करते हुए जनता की चुनी हुई सरकार को गिराकर जनादेश, लोकतंत्र और संविधान का अपमान किया है। चन्द्रप्रभाष शेखर ने कहा कि कमलनाथ जी ने जोड़तोड़, सौदेबाजी और अनैतिक दलबदल जैसे कृत्यों से खुद को दूर रखकर भारतीय लोकतंत्र और डॉ. भीमराव अम्बेडकर द्वारा बनाये संविधान को जो सम्मान दिया है उससे हर एक भारतीय खुद को गौरवान्वित महसूस करता है। विधायक खरीदकर सरकार बनाने के भाजपा के इस अलोकतांत्रिक और कालेकाल में कमलनाथ जी ने लोकतंत्र की रक्षा के लिए सत्ता का त्याग किया और हर एक भारतवासी को लोकतंत्र के मूल्यों की सही तस्वीर दिखाई है।   उन्होंने कहा कि जब भाजपा तमाम नैतिक मूल्यों और आदर्शों को कुचलकर सत्ता हासिल करने के लिए प्रजातन्त्र को धनतंत्र से कुचल रही थी, तब तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ने लोकतांत्रिक मूल्यों, आदर्शवादी सिद्धांतो और नैतिकता के उच्च मापदंडो को मानते हुए 20 मार्च 2020 को मुख्यमंत्री के पद से त्यागपत्र दे दिया।   चन्द्रप्रभाष शेखर ने "लोकतंत्र सम्मान दिवस" मनाने का ऐलान करते हुए बताया कि कमलनाथ द्वारा खरीद-फरोख्त की राजनीति को ठुकराते हुए मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने की तारीख "20 मार्च" को हम प्रतिवर्ष "लोकतंत्र सम्मान दिवस" के रूप में मनाएंगे। इस दिन सभी जिला मुख्यालय में तिरंगा यात्रा का आयोजन, संविधान की प्रस्तावना का वाचन एवं वितरण, गांधी जी एवं अम्बेडकर जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण और सभी कांग्रेस कार्यालयों में कमलनाथ के वीडियो सन्देश का प्रदर्शन व प्रसारण किया जाएगा।

Dakhal News

Dakhal News 16 March 2022


bhopal,Chief Minister Chouhan, planted kadamba, cassia plants

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को राजधानी भोपाल के स्मार्ट उद्यान में कदम्ब और केसिया का पौधा लगाया। मुख्यमंत्री चौहान के साथ वक्त की आवाज सेवा समिति के सदस्यों प्राकृत जैन, आष्टी शरणागत, अनुराधा जैन और दिव्या पाटले ने भी पौध-रोपण किया।   बता दें कि पर्यावरण-संरक्षण और सामाजिक उत्थान के लिए कृत संकल्पित समिति द्वारा लगभग 200 पौधे लगाए है और पर्यावरण-संरक्षण के प्रति जन-जागरूकता के निरंतर प्रयास और प्रेरित किया जा रहा है। समिति के माध्यम से रक्तदान, समय-समय पर गरीब एवं असहाय लोगों, बच्चों को नाश्ता-भोजन और जरूरतमंदों को कपड़े, कंबल आदि उपलब्ध कराए जाते हैं। मुख्यमंत्री ने समिति को उनके पुनीत कार्य के लिए अपनी शुभकामनाएं दी।     उल्लेखनीय है कि कदम्ब, आयुर्वेद में अपने औषधीय गुणों के लिए प्रसिद्ध है। इसके फूलों का विशेष महत्व है। प्राचीन वेदों और रचनाओं में कदम्ब के सुगन्धित फूलों का उल्लेख मिलता है। केसिया की छाल और पत्तियों का उपयोग आयुर्वेदिक दवाएँ बनाने में किया जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 15 March 2022


bhopal, BJP MLA

भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र के सातवें दिन मंगलवार को सदन में प्रश्रकाल के दौरान सिंरोज विधायक उमाकांत शर्मा ने अपनी ही सरकार को यह कहकर कटघरे में खड़ा कर दिया कि उनका सवाल ही बदल दिया गया है। उन्होंने जो जानकारी सरकार से मांगी है वह नहीं दी जा रही है।   प्रश्नकाल के दौरान विधायक उमाकांत ने कहा कि पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग के अंतर्गत मनरेगा से होने वाले सामुदायिक कार्यों को लेकर उनका सवाल बताया गया है जो उन्होंने पूछा ही नहीं है। शर्मा ने कहा कि उनका मूल प्रश्न बदल दिया गया है। इसे विधानसभा सचिवालय ने बदला या विभागीय कर्मचारियों ने बदला है, यह उन्हें नहीं मालूम है लेकिन जो पूछा था, वह जानकारी जवाब में नहीं है।   उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि उनके विधानसभा के 2 जनपद में मनरेगा में गड़बड़ी की जांच पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह नहीं होने देना चाहते हैं, इसके लिए दिग्विजय ने चिट्ठी लिखी है, जिसमें उन्होंने जांच नहीं किए जाने की बात कही है। इसके बाद कांग्रेस ने सरकार को घेरते हुए कहा कि सरकार बताए कि क्या दिग्विजय सिंह सरकार चला रहे हैं? विधायक उमाकांत शर्मा यहीं नहीं रुके उन्होंने यह भी कहा कि पूरे मामले में उनके विधानसभा के दो जनपदों के अफसरों को बचाया जा रहा है। बाद में इस मामले में संसदीय कार्य मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि इस मामले की जांच एसआईटी से तय समय में कराई जाएगी।

Dakhal News

Dakhal News 15 March 2022


bhopal,MLA Rameshwar Sharma, watched , Kashmir Files

भोपाल। कश्मीर में हिंदुओं पर हुए जुल्म' और उनके पलायन की त्रासदी पर केंद्रित विवेक अग्निहोत्री की फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' रिलीज के बाद से ही लगातार चर्चाओं में बनी हुई है। मप्र में भी इसे टैक्स-फ्री कर दिया गया है। मंगलवार को विधायक रामेश्वर शर्मा ने कोलार के डीडीएक्स सिनेमाघर में अपने समर्थकों और इलाके में निवासरत कश्मीरी हिंदुओं के साथ यह फिल्म देखी। इस दौरान लगातार देशभक्ति के नारे गूंजते रहे। विधायक रामेश्वर शर्मा अपने समर्थकों के साथ ‘द कश्मीर फाइल्स’ देखने के लिए मंगलवार को सिनेमा हाल पहुंचे। सिनेमाघर में जैसे ही फिल्म का शो शुरू हुआ, समूचा हाल 'जहां हुए बलिदान मुखर्जी, वो कश्मीर हमारा है', 'जो कश्मीर हमारा है, वो सारे का सारा है' और 'भारत माता की जय' के नारों से गूंज उठा। फिल्म देखने के उपरांत मीडिया से बातचीत में शर्मा ने कहा कि वास्तव में यह एक फ़िल्म नहीं, वरन हकीकत है। दिन में आंख बंद कर लेने से रात नहीं हो जाती है। क्या हुआ था कश्मीर में? कैसे रातोंरात कश्मीरी हिंदुओं को अपने ही घर से खदेड़ दिया गया। सरेआम हिंदू बहन-बेटियों के साथ दुष्कर्म हुए, पिता को बच्चों के सामने जान मारा गया और बच्चों को उनके पिता के सामने। मजहबी कट्टरपंथियों ने हिंसा का जो नंगा नाच कश्मीर में खेला, उसे भुलाया नहीं जा सकता। उन्होंने कहा कि कश्मीरी हिंदुओं का पुनर्वास तो छोड़िए, कांग्रेस के दबाव में आज तक उन हिंदुओं के दर्द की कहानी तक लिखने नहीं दी गई। शर्मा ने फिल्म देखने के बाद इसके निर्माता-निर्देशक समेत फिल्म के सभी पात्रों और अन्य क्रू मेंबर्स को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि 'द कश्मीर फाइल्स ' हमें बताती है कि तब हिंदुओं से क्या चूक हुई थी, जो हमें आज और आने वाले भविष्य में भी ध्यान रखनी है। उन्होंने सभी से 'द कश्मीर फ़ाइल्स' देखने की अपील की।

Dakhal News

Dakhal News 15 March 2022


indore,BJP

इंदौर। भारतीय जनता पार्टी की सोच और विचारधारा स्पष्ट है। भाजपा की नींव दो मुद्दों पर आधारित है-पहला एकात्म मानववाद जो एक आध्यात्मिक विचारधारा है और दूसरा अंत्योदय, यही हमारे गाइडिंग प्रिंसिपल्स है। हमारी धारणा और हमारा संकल्प है और इसी के तहत प्रधानमंत्री ने विगत 7 वर्षों में लोकोन्मुखी सरकार को पूरे देश में स्थापित किया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान विगत 2 वर्ष के कठिन समय में भी प्रदेश के विकास के लिए हमेशा तत्पर रहे हैं। हमें पूर्ण विश्वास है कि आने वाले 2023 में मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में भी भाजपा की प्रचंड बहुमत की सरकार बनेगी।   यह बातें केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इंदौर में भाजपा कार्यालय में आयोजित बैठक को संबोधित करते हुए कही। केंद्रीय मंत्री सिंधिया अपने दो दिवसीय दौरे के दूसरे दिन रविवार को भाजपा कार्यालय पहुंचे, जहां उन्होंने पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने बैठक में भारत सरकार द्वारा चलाए गए ऑपरेशन गंगा, जिसमें यूक्रेन में फंसे भारतीय विद्यार्थियों को किस तरह देश वापस लाया गया और किन कठिनाइयों का सामना करना पड़ा, इन अनुभवों को साझा किया।   बैठक में वरिष्ठ नेता कृष्णमुरारी मोघे, कैबिनेट मंत्री तुलसीराम सिलावट, नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे, विधायक मालिनी गौड़, महेंद्र हार्डिया, पूर्व विधायक सुदर्शन गुप्ता, आईडीए अध्यक्ष जयपाल सिंह चावड़ा, वरिष्ठ नेता गोपीकृष्ण नेमा, गोविंद मालू, प्रवक्ता उमेश शर्मा, टीनू जैन, घनश्याम शेर, प्रमोद टंडन, ज्योति तोमर, दिव्या गुप्ता, मुद्रा शास्त्री उपस्थित रहे।   सिंधिया ने इस मौके पर नवनियुक्त नगर कार्यकारिणी के पदाधिकारियों से परिचय प्राप्त कर शुभकामनाएं दी और कहा कि सत्ता से अधिक ताकतवर संगठन होता है। हमें सरकार की योजनाओं को किस बेहतर ढंग से वंचित वर्ग तक पहुंचाया जाए इस और ध्यान देना है।   केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि मै भारतीय जनता पार्टी का एक साधारण कार्यकर्ता हूं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पार्टी को जिस तरह दिशा निर्देश और नेतृत्व दिया है, यह उसी का फल है कि एक ऐतिहासिक नतीजा जनता ने डबल इंजन की सरकार के रूप में उत्तर प्रदेश को दिया है। एक ओर केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं तो दूसरी ओर प्रदेशों में हमारा सक्षम नेतृत्व।

Dakhal News

Dakhal News 13 March 2022


bhopal, Minister Hardeep Singh Dung ,took stock , crop damage

भोपाल। दो दिन पहले अचानक मौसम परिवर्तन के बाद हुई जोरदार बारिश और ओलावृष्टि से मंदसौर जिले में फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है। प्रदेश के नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा और पर्यावरण मंत्री हरदीप सिंह डंग ने रविवार को मंदसौर जिले के सुवासरा क्षेत्र के विभिन्न गाँवों में ओलावृष्टि से हुई फसल नुकसानी का जायजा लिया।   उन्होंने खेतों में फसलों की स्थिति को देखा और किसानों से चर्चा की। उन्होंने किसानों से कहा कि राज्य सरकार हर स्थिति में किसानों के साथ खड़ी रही है। ओलावृष्टि की जानकारी मिलते ही तत्काल हमने सर्वे प्रारंभ करवाया है। हमारा प्रयास रहेगा कि जल्द से जल्द किसानों को राहत प्रदान की जाए।   मंत्री डंग ने ग्राम सेमली कांकड, ढाबला देवल, धनवाडा, गैलाना, धाकडखेडी, लोढाखेडी, रामनगर, देवपुरा नागर, रुनिजा आदि ग्रामों का दौरा किया, जो अभी आगे और ग्रामों तक जारी रहेगा, जिनमें भरपूर, आम्बा, हनुमंतिया, धन्याखेड़ी, अंगारी, गुराड़िया बामनी, देवपुरा, बोरखेड़ी, सेमली एवं बावड़ीखेड़ा आदि ग्राम शामिल हैं।

Dakhal News

Dakhal News 13 March 2022


bhopal,CM Chouhan ,planted kadamba, cassia plants

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को राजधानी भोपाल के स्मार्ट उद्यान में कदम्ब और केसिया का पौधा लगाया। मुख्यमंत्री चौहान के साथ लायंस क्लब की डॉ. सीमा सक्सेना, सुयश कुलश्रेष्ठ तथा सुषमा कुलश्रेष्ठ ने भी पौध-रोपण किया। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि स्वयंसेवी संस्थाओं को विशेष रूप से स्वच्छता गतिविधियों में सहयोग करना चाहिए। उन्होंने कहा कि मैं संस्था के साथियों को समस्त पुनीत कार्यों एवं प्रयासों के लिए अपनी शुभकामनाएं देता हूं।   बता दें कि लायंस क्लब ने भोपाल के विभिन्न क्षेत्रों जैसे भदभदा विश्रामघाट, चित्तौड़ कॉम्प्लेक्स के बाहर, लहारपुर वन पार्क, कलियासोत डेम आदि पर लगभग 600 पौधे लगाए हैं। पॉलीथीन फ्री भोपाल के लिए क्लब के माध्यम से कपड़ों के थैलों का वितरण और नगर निगम के सहयोग से रहवासी सोसायटियों में गीले कचरे का निस्पादन कर कम्पोस्ट यूनिटों का निर्माण कराया जा रहा है।   गौरतलब है कि कदम्ब, आयुर्वेद में अपने औषधीय गुणों के लिए प्रसिद्ध है। इसके फूलों का विशेष महत्व है। प्राचीन वेदों और रचनाओं में कदम्ब के सुगन्धित फूलों का उल्लेख मिलता है। केसिया की छाल और पत्तियों का उपयोग आयुर्वेदिक दवाएँ बनाने में किया जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 13 March 2022


bhopal, State government, conspiring,deprive students , CPI(M)

भोपाल। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने राज्य सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं। पार्टी के राज्य सचिव जसविंदर सिंह ने कहा कि प्रदेश की शिवराज सरकार का मनुवादी चेहरा एक बार फिर बेनकाब हुआ है। सरकार अनुसूचित जाति से संबंधित छात्रों की छात्रवृत्ति और मकान किराए का 525 करोड़ रुपये दबाए बैठी है। यह सिर्फ उन्हें इस राशि से वंचित करने की साजिश नहीं है, बल्कि इस बहाने शिक्षा से वंचित करने की सोची समझी योजना का हिस्सा है।   माकपा नेता जसविंदर सिंह ने शनिवार को जारी बयान में कहा कि प्रदेश सरकार की ओर से 2.80 लाख अनुसूचित जाति के छात्रों के खाते में पहुंचने वाली 425 करोड़ की छात्रवृत्ति का भुगतान नहीं किया गया है। इससे इन आर्थिक और सामाजिक रूप से कमजोर तबकों को अपना पढ़ाई जारी रखने में भी दिक्कत आ रही है।     उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं सरकार ने साल भर से 80 हजार से अधिक इन्ही तबकों के छात्रों का मकान किराया भी नहीं दिया है। जो छात्र मैट्रिक करने के बाद सरकारी या सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त संस्थान में पढ़ाई करते हैं, उन्हें यदि सरकारी छात्रावास में आवास की सुविधा नहीं मिलती है तो सरकार की ओर से मकान किराया देने का प्रावधान है। यह किराया संभागीय मुख्यालय पर 2000 रुपये प्रतिमाह, जिला मुख्यालय पर 1250 रुपये प्रतिमाह और तहसील मुख्यालय पर 1000 रुपये प्रतिमाह है। यह राशि भी 100 करोड़ रुपये है, जो छात्रों को नहीं मिली है।     उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मांग की कि उक्त राशि को तुरंत पात्र छात्रों के खाते में पहुंचाया जाए, ताकि वे अपना अध्ययन जारी रख सकें।

Dakhal News

Dakhal News 12 March 2022


bhopal,Chief Minister Chouhan, planted a plant , Mogra

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को राजकीय विमान तल (स्टेट हैंगर) परिसर में दूधिया मोगरे का पौधा लगाया। मुख्यमंत्री चौहान अपने संकल्प के क्रम में निरंतर प्रतिदिन पौध-रोपण कर रहे हैं।   उल्लेखनीय है कि दूध मोगरा 6-7 फ़ीट ऊँचा बारहमासी सफ़ेद फूल का पौधा है। अलग-अलग प्रान्तों में यह अलग नाम जैसे तगर, चाँदनी, नन्दी वर्धन इत्यादी से जाना जाता है। बरसात में इसकी छटा देखते ही बनती है।

Dakhal News

Dakhal News 12 March 2022


gwalior,Union Minister Scindia, reached Anganwadi center

ग्वालियर। केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया शुक्रवार को ग्वालियर प्रवास के दौरान यहां इन्द्रानगर आंगनबाड़ी केन्द्र के बच्चों के बीच पहुँचे। इस दौरान उन्होंने बच्चों से आंगनबाड़ी केन्द्र में मिल रही सेवाओं के संबंध में चर्चा की। साथ ही फल, चॉकलेट और बिस्किट वितरित कर बच्चों का उत्साहवर्धन किया।   आंगनबाड़ी केन्द्र के निरीक्षण के दौरान केन्द्रीय मंत्री सिंधिया ने गर्भवती व धात्री माताओं को आंगनबाड़ी केन्द्र के माध्यम से सरकार द्वारा मुहैया कराई जा रहीं सेवाओं के बारे में जानकारी भी ली। उन्होंने इन्द्रानगर आंगनबाड़ी केन्द्र की पोषण वाटिका का भी जायजा लिया। साथ ही कहा कि पोषण वाटिका में उगाई गई सब्जियाँ बच्चों और माताओं को ही मुहैया कराई जाए, जिससे उन्हें अच्छे पोषक तत्व मिल सकें।   सिंधिया ने आंगनबाड़ी में दर्ज सभी बच्चों की खेल-खेल में अनौपचारिक पढ़ाई कराने पर भी बल दिया। उन्होंने कहा कि हमारा तरीका ऐसा हो, जिससे बच्चों की रूचि पढ़ाई के साथ-साथ रचनात्मक गतिविधियों के प्रति बढ़े। सिंधिया ने कहा कि मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ युवा पीढ़ी गढ़ने के लिये बच्चों की जड़ मजबूत होना जरूरी है। आंगनबाड़ी इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है। उन्होंने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता प्रज्ञा पाराशर को निर्देश दिए कि सरकार की मंशा के अनुरूप आंगनबाड़ी केन्द्र के माध्यम से पूरी संवेदनशीलता व समर्पण भाव के साथ महिलाओं व बच्चों को सेवायें मुहैया कराएँ।   इस अवसर पर बीज एवं फार्म विकास निगम के अध्यक्ष मुन्नालाल गोयल व भाजपा जिला अध्यक्ष कमल माखीजानी सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण तथा कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह समेत अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद थे।

Dakhal News

Dakhal News 11 March 2022


bhopal, Decision to change ,site of Jalpani dam , Ajay Singh

भोपाल। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने सिंगरौली के जालपानी की गोंड वृहद सिंचाई परियोजना का निर्माण शुरू होने के बाद निर्माण स्थल चमारीडोल बदले जाने पर अपनी कड़ी आपत्ति दर्ज की है। उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह से पूछा है कि अचानक बांध स्थल को बदलने की कौन सी मजबूरी आ पड़ी। किसके इशारे पर कौन से खास व्यक्ति को लाभ पहुँचाने के लिए हजारों आदिवासियों के साथ छल, धोखा और अन्याय किया जा रहा है। क्षेत्र के आदिवासी सोनगढ़ में बांध का स्थान न बदलने के लिए पिछले 23 फरवरी से लगातार आंदोलन कर रहे हैं। अजय सिंह ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर कहा कि जब एक बार गोपद नदी पर बनने वाले बांध की जगह कुसमी के जालपानी में तय हो गई है तो इसे बदलने की क्या मजबूरी और औचित्य है? वैसे भी यहाँ बांध निर्माण की सभी औपचारिकतायें पूरी हो चुकी हैं। ठेकेदार को तीन सौ करोड़ एडवांस भी दिया जा चुका है। इसमें से दौ सौ करोड़ खर्च भी हो चुके हैं, जंगल की कटाई कर लकड़ी वन विभाग को सौंप दी गई है, वन और पर्यावरण की स्वीकृति भी अंतिम चरण में है। फिर निर्माण स्थल बदलकर अचानक चमारीडोल क्यों कर दिया गया है? श्री सिंह ने कहा कि नयी प्रस्तावित जगह पर आदिवासी ब्लाक कुसमी के छरू ग्राम पंचायत के 33 आदिवासी गाँव डूब में आएंगे। हजारों आदिवासी परिवार विस्थापित होंगे, बांध की लंबाई और लागत दो गुनी हो जाएगी, डूब के गावों की पंचायतों से सहमति भी नहीं ली गई है। यहाँ के आदिवासियों की मांग है कि चमारीडोल की जगह पूर्व में प्रस्तावित जालपानी में ही बांध बनाया जाये। इस मांग को लेकर आदिवासी आंदोलन कर रहे हैं, उनका आरोप है कि ठेकेदार को लाभ पहुंचाने की गरज से बांध स्थल बदला जा रहा है। उनका यह भी आरोप है कि जालपानी के कोल ब्लाक पर एक उद्योगपति की नजर लगी है जिसे शिवराज सिंह की शह प्राप्त है।   अजयसिंह ने कहा कि पूर्व प्रस्तावित बांध स्थल से संजय टाइगर रिजर्व दस किलोमीटर दूर है। यहाँ वन और कृषि भूमि प्रभावित नहीं होगी। निर्माण कार्य भी प्रारम्भ हो गया था जिसे रोक दिया गया। उन्होंने कहा कि चमारी डोल के लिए ही प्रशासनिक और वित्तीय स्वीकृति मिली थी। इसलिए मेरा शिवराज सिंह से व्यक्तिगत आग्रह है कि तय बांध स्थल कतई न बदला जाये, यह निर्णय अव्यवहारिक होगा। बांध स्थल बदले जाने के विरोध में सोनगढ़ में आन्दोलनरत आदिवासियों की ओर से एक प्रतिनिधि मण्डल शुक्रवार को भोपाल में अजय सिंह से मिला।

Dakhal News

Dakhal News 11 March 2022


bhopal, Youth should contribute , progress and preservation, Minister Thakur

भोपाल। संस्कृति, पर्यटन और धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री उषा ठाकुर ने कहा कि ज्ञान, तपस्या और बलिदान यही विद्यार्थी जीवन का मूल मूल्य है। आप सभी खूब पढ़ो, मेहनत करो और देश की उन्नति में भागीदार बनो। यह बात मंत्री ठाकुर ने शुक्रवार को प्रतिज्ञा आईएएस अकादमी एमपी नगर में प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे युवाओं के सेमिनार को संबोधित करते हुए कही।   मंत्री ठाकुर ने युवाओं को वैदिक जीवन पद्धति अपनाने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि सनातन संस्कृति में वैदिक जीवन पद्धति स्वस्थ और खुशहाल जीवन का आधार थी। मिट्टी के घर आज के कंक्रीट के घर से ज्यादा उपयोगी और स्वस्थवर्धक है। वर्तमान में भी वैज्ञानिक आधार पर इसकी पुष्टि की गई है। वैदिक जीवन पद्धति की छोटी-छोटी बातों को अपने जीवन में उतारें और देश की गौरवमयी संस्कृति की उन्नति और संरक्षण में योगदान दें। यही सच्ची देश-भक्ति है। मंत्री ठाकुर ने "देश की स्वाधीनता पर आँच तुम आने न देना" कविता सुनाकर युवाओं का उत्साहवर्धन भी किया।   मंत्री ठाकुर ने कहा कि युवाओं में भारत और भारतीयता के प्रति सम्मान का भाव होना चाहिए। समाज के गरीब, कमजोर और शोषित वर्ग की सहायता करें। दुखियों का दुख दूर करें। यही राष्ट्र की सबसे बड़ी सेवा और मानव-जीवन का सबसे बड़ा आदर्श है। मंत्री ठाकुर ने युवाओं से अपने घर की बैठकों में महापुरुष और क्रांतिकारियों के चित्र लगाने का आव्हान किया। उन्होंने कहा यह चित्र घर के सदस्यों में राष्ट्रीयता के चित्त का निर्माण करेगा। अकादमी द्वारा मंत्री ठाकुर का शॉल और स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मान किया गया।   अकादमी के संस्थापक और डायरेक्टर डॉ. अनिल कुमार उपाध्याय ने बताया कि प्रतिज्ञा आईएएस अकादमी का संचालन प्रतिज्ञा समाज सेवा-कल्याण समिति द्वारा किया जाता है। यहाँ युवाओं को प्रतियोगी परीक्षाओं की निःशुल्क तैयारी करवाई जाती है। अकादमी से तैयारी कर बड़ी संख्या में युवा शासकीय क्षेत्र में चयनित हो चुके हैं। सेमिनार में अकादमी के शिक्षक सहित बड़ी संख्या में युवा उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 11 March 2022


bhopal, Smart and strong methodology , target guarantee , Governor Patel

भोपाल। राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने कहा कि टारगेट के साथ स्मार्ट और स्ट्रांग कार्य-प्रणाली सफलता की गारंटी है। संकल्प, समर्पण, सत्य-निष्ठा और सकारात्मकता के साथ कार्य करने पर कोई भी लक्ष्य असाध्य नहीं होता है। उन्होंने कहा कि जीवन में संतोष उपलब्धियों में नहीं निरंतर प्रयासों में मिलता है।   राज्यपाल पटेल गुरुवार को राजधानी भोपाल में टेक्नोक्रेट्स ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस के प्लेसमेंट दिवस समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सबके विश्वास, सबके साथ और सबके प्रयासों से समावेशी विकास का कार्य किया जा रहा है। समावेशी विकास के लिए सबका सहयोग जरूरी है।     उन्होंने बीज से वृक्ष बनने के दृष्टांत का उल्लेख करते हुए कहा कि जिस तरह बीज को सही जगह पर रोपने और उसकी उचित देखभाल करने पर वह बड़ा वृक्ष बनकर पूरे क्षेत्र को अपने फलों से लाभान्वित करता है ठीक उसी तरह समाज भी सफल विद्यार्थियों से आचरण की अपेक्षा करता है। भविष्य में मिलने वाली सुख, सुविधाओं के साथ अपने माता-पिता के त्याग और तपस्या को कभी नहीं भूलें। ज्ञान और संस्कारों का आचरण में व्यवहार जरूरी है।     कार्यक्रम में केंद्रीय इस्पात एवं ग्रामीण विकास राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा नई शिक्षा नीति से शिक्षा क्षेत्र को प्रोत्साहित करने के प्रभावी कार्य किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कैरियर में अच्छा प्लेसमेंट मिलना जीवन का महत्वपूर्ण पड़ाव है। उन्होंने सभी विद्यार्थियों को उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएँ दी।     प्रदेश के विज्ञान, प्रौद्योगिकी और सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा ने कहा कि राज्य सरकार ने स्टार्टअप और सूचना प्रौद्योगिकी के लिए नया ईको सिस्टम बनाया है। व्यापार और व्यवसाय के लिए अपार संभावनाएँ और सुविधाएँ उपलब्ध है। सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में भवन और अन्य सुविधाओं के लिए सरकार द्वारा 40 प्रतिशत अनुदान दिया जा रहा है। महिला उद्यमियों के लिए 50 प्रतिशत का प्रावधान किया गया है।     उन्होंने कहा कि प्रदेश में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस जैसी नई तकनीकों के क्षेत्र में आगे बढ़ने के प्रयास किए जाएँ। प्लेसमेंट प्राप्त विद्यार्थियों को बधाई देते हुए कहा कि जो विद्यार्थी चयनित नहीं हो सके हैं, वे कौशल उन्नयन के प्रयासों पर ध्यान दें।     कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों के विशेषज्ञों ने विद्यार्थियों को संबोधित किया। प्रतिष्ठित कंपनियों में चयनित विद्यार्थियों और उनके पालकों को सम्मानित भी किया गया।

Dakhal News

Dakhal News 10 March 2022


bhopal, Chief Minister Chouhan ,Salute to Madhavrao Scindia

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री स्व. माधवराव सिंधिया की जयंती पर अपने निवास कार्यालय स्थित सभाकक्ष में उनके चित्र पर माल्यार्पण कर उनका स्मरण किया। इस मौके पर जैतपुर जिला शहडोल से विधायक मनीषा सिंह तथा विजयपुर जिला श्योपुर से विधायक सीताराम आदिवासी भी उपस्थित थे।   स्व. श्रीमंत माधवराव सिंधिया का जन्म 10 मार्च 1945 को मुंबई में हुआ था। उन्होंने सिंधिया स्कूल ग्वालियर तथा ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में शिक्षा प्राप्त की। लोकसभा के सांसद रहने के साथ सिंधिया वर्ष 1990-1993 में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के अध्यक्ष भी रहे। तीस सितंबर 2001 को विमान दुर्घटना में माधवराव सिंधिया का निधन हुआ।   मुख्यमंत्री चौहान ने स्व. सिंधिया का स्मरण करते हुए ट्वीट किया कि - "प्रदेश के नव-निर्माण में आपका अतुलनीय योगदान सर्वदा अविस्मरणीय रहेगा।"

Dakhal News

Dakhal News 10 March 2022


gwalior, Continuous work ,all-round development ,Jyotiraditya Scindia

ग्वालियर। केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि ग्वालियर की प्रगति और विकास ही हम सबका लक्ष्य है। केन्द्र सरकार और प्रदेश सरकार द्वारा ग्वालियर के विकास के लिये अनेक बड़ी परियोजनाओं को मंजूरी प्रदान की गई है। ग्वालियर में आधुनिक हवाई अड्डा, आधुनिक रेलवे स्टेशन का निर्माण, एक हजार बिस्तर के अस्पताल का निर्माण के साथ ही स्वर्ण रेखा पर एलीवेटेड रोड़ के निर्माण की भी स्वीकृति हुई है। इन परियोजनाओं के पूर्ण होने पर ग्वालियर की तस्वीर बदली-बदली नजर आएगी। ग्वालियर के विकास के लिये निरंतर कार्य किए जाएंगे।   केन्द्रीय मंत्री सिंधिया गुरुवार को ग्वालियर में भूमिपूजन समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने यहां साढ़े 11 करोड़ रुपये लागत के विकास कार्यों के भूमिपूजन किया। समारोह में ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, राज्य मंत्री सुरेश राठखेड़ा तथा क्षेत्रीय सांसद विवेक नारायण शेजवलकर, भाजपा जिला अध्यक्ष कमल माखीजानी, क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि के साथ ही संभागीय आयुक्त आशीष सक्सेना, कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, नगर निगम आयुक्त किशोर कान्याल, क्षेत्रीय पार्षद जगत सिंह कौरव और बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे।   सिंधिया के मुख्य आतिथ्य में 5 करोड़ 74 लाख रुपये की लागत से लक्ष्मीपुरम किशनबाग में 30 बिस्तरीय अस्पताल का निर्माण लागत 4 करोड़ 83 लाख, एबी रोड़ किशनबाग के बरागाँव तिराहे तक सड़क एवं नाला निर्माण लागत 41 लाख रूपए का भूमिपूजन किया गया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि ग्वालियर के विकास को लेकर केन्द्र सरकार व प्रदेश सरकार तेजी से कार्य कर रही है। अधोसंरचना विकास के कार्य प्राथमिकता से पूरे हों, इसके लिये विशेष प्रयास भी किए जा रहे हैं। ग्वालियर की पेयजल समस्या के स्थायी समाधान के लिये भी सार्थक प्रयास किए जा रहे हैं।   केन्द्रीय मंत्री सिंधिया ने कहा कि ग्वालियर में स्वास्थ्य सुविधाओं की दृष्टि से भी अनेक कार्य किए जा रहे हैं। इसमें एक हजार बिस्तर के अस्पताल का निर्माण, हजीरा सिविल अस्पताल का उन्नयन, जिला अस्पताल का उन्नयन के साथ ही दीनदयाल नगर में भी 20 बिस्तर के अस्पताल का कार्य प्रारंभ किया गया है। आने वाले समय में निजी अस्पतालों की कड़ी में भी बड़ी सौगात ग्वालियर को मिलेगी। स्वास्थ्य सुविधाओं के लिये ग्वालियर वासियों को ग्वालियर के बाहर न जाना पड़े, ऐसी व्यवस्थायें भी की जायेंगी।   उन्होंने कहा कि किशनबाग में 30 बिस्तर के अस्पताल के बन जाने से क्षेत्र के लोगों को अब स्वास्थ्य सुविधाओं के लिये जिला अस्पताल अथवा जेएएच जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। इसके साथ ही सड़क निर्माण से लोगों को आवागमन में बेहतर सुविधायें उपलब्ध होंगीं। इसी क्षेत्र में एक अंतरराष्ट्रीय स्तर का स्टेडियम भी निर्मित किया जा रहा है। आने वाले दिनों में यहाँ पर अंतरराष्ट्रीय स्तर के मैच भी होंगे।   सिंधिया ने बताया कि देश के प्रधानमंत्री के नेतृत्व में यूक्रेन में हो रहे युद्ध के कारण भारत देश के जो बच्चे वहाँ फँसे थे, उन्हें सुरक्षित लाने के लिये सराहनीय प्रयास किए गए हैं। देश के चार मंत्रियों को अलग-अलग स्थानों पर भेजकर 80 विमानों के माध्यम से बच्चों को सुरक्षित घर लाया गया है।   कार्यक्रम में सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने कहा कि ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र में विकास की जो सौगात मिली है, उससे यहाँ के निवासियों को बेहतर सुविधाएं मिलेंगी। अस्पताल के निर्माण से क्षेत्रवासियों को अब वहीं पर स्वास्थ्य सुविधायें उपलब्ध होंगी और लोगों को इलाज के लिये जिला अस्पताल तक जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।   उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में शहरी क्षेत्र के विकास के जो कार्य प्रारंभ किए गए हैं, उससे मध्यप्रदेश के अन्य शहरों की तरह ग्वालियर में भी विकास के अनेक बड़े काम हुए हैं। अमृत परियोजना के तहत जहाँ घर-घर पानी पहुँचाने की व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही सीवर समस्या के निदान हेतु सीवर ट्रीटमेंट प्लांटों के निर्माण के साथ-साथ लाइन बिछाने का कार्य भी हुआ है। उन्होंने कहा कि ऊर्जा मंत्री तोमर ने अपने क्षेत्र के विकास के लिये निरंतर प्रयास कर प्रदेश सरकार से अनेक कार्य स्वीकृत कराए हैं, जिससे क्षेत्रवासियों को विकास की कई सौगातें मिली हैं। स्वर्ण रेखा पर एलीवेटेड रोड़ परियोजना के पूर्ण होने से क्षेत्रवासियों को एक बड़ी सौगात मिलेगी।   ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने अपने क्षेत्र में शुरू किए जा रहे विकास कार्यों के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के माध्यम से क्षेत्र में 30 बिस्तर का अस्पताल और लोक निर्माण विभाग के माध्यम से सड़क निर्माण की जो स्वीकृति प्राप्त हुई है, उससे क्षेत्रवासियों को आवागमन में सुविधा प्राप्त होने के साथ-साथ लोगों को घर के पास ही बेहतर स्वास्थ्य सुविधायें उपलब्ध होने लगेंगी।   उन्होंने केन्द्रीय मंत्री सिंधिया से आग्रह किया कि युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के लिये बड़े उद्योगों की स्थापना के भी विशेष प्रयास किए जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि आम नागरिकों को बेहतर सुविधायें मिलें, इसके लिये मैं हमेशा प्रयास करता रहूँगा।

Dakhal News

Dakhal News 10 March 2022


bhopal, Budget of MP,Agriculture Minister Patel

भोपाल /हरदा। बुधवार को मध्यप्रदेश की विधानसभा में प्रस्तुत हुए शिवराज सरकार के बजट 2022-23 पर किसान नेता एवं कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि मध्यप्रदेश का बजट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के निर्माण के सपनों को साकार करने वाला है। उन्होंने कहा कि यह बजट किसान, गरीब, महिलाओं, बच्चों, बुजुर्गों और युवाओं को समर्पित है। इस बजट में प्रदेश के किसान भाइयों का सबसे ज्यादा ध्यान रखा गया है।बजट में कृषि क्षेत्र में 40हज़ार करोड़ का प्रावधान करना यह दर्शाता है कि सरकार किसानों को आत्मनिर्भर बनाते हुए कृषि को लाभ का धंधा बनाने की दिशा में अग्रसर है।

Dakhal News

Dakhal News 9 March 2022


bhopal,1300 crore budget , solar energy ,Dang

भोपाल। प्रदेश के पर्यावरण, नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री हरदीप सिंह डंग ने कहा है कि प्रस्तावित बजट मध्यप्रदेश और देश को आत्म-निर्भर बनाने की दिशा में सफलता की नई इबारत लिखेगा। मंत्री डंग ने बुधवार को विधानसभा में पेश राज्य के वार्षिक बजट पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि सौर ऊर्जा के लिये इस वर्ष के बजट में एक हजार 300 करोड़ रुपये का प्रावधान प्रस्तावित है। इससे पर्यावरण संरक्षण के साथ ही सस्ती अक्षय ऊर्जा मिलेगी, जिससे विकास के नये आयाम स्थापित होंगे। उन्होंने ऊर्जा के क्षेत्र में वर्ष 2021-22 के बजट अनुमान 17 हजार 908 करोड़ को 30 प्रतिशत बढ़ाकर वर्ष 2022-23 के लिये 23 हजार 255 करोड़ के प्रस्तावित प्रावधान का स्वागत किया है। डंग ने कहा कि नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में मध्यप्रदेश लगातार नये कीर्तिमान स्थापित कर देश में अग्रणी राज्य बन गया है। नये बजट के प्रावधानों से प्रदेश को अपने उच्च लक्ष्यों को हासिल करने में आसानी होगी।

Dakhal News

Dakhal News 9 March 2022


bhopal, Budget ,all-round development , Madhya Pradesh, Energy Minister Tomar

भोपाल। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि बुधवार को वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा द्वारा प्रस्तुत बजट प्रदेश के सर्वांगीण विकास का बजट है। बजट में गरीबों, युवा, बुजुर्ग, महिलाओं, विद्यार्थियों एवं कर्मचारियों सहित सभी वर्गों का समुचित ध्यान रखा गया है। ऊर्जा विभाग के बजट में 30 प्रतिशत की वृद्धि कर इस वर्ष के लिए 23 हजार 255 करोड़ रुपये का प्रावधान स्वागत योग्य है। तोमर ने बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए बताया कि वित्तीय वर्ष 2021-22 में घरेलू एवं कृषि उपभोक्ताओं को 21 हजार करोड़ रुपये की सब्सिडी दी गई है। इस वर्ष भी सब्सिडी का प्रावधान इस श्रेणी के उपभोक्ताओं के लिए राहतकारी है। बजट में विद्युत अधोसंरचना सुधार एवं विद्युत हानियों में कमी करने के लिए बजट में 2500 करोड़ रुपये का प्रावधान रखा गया है। साथ ही सभी विद्युत कंपनियों में पूंजीगत कार्यों में 5 हजार 418 करोड़ रुपये का निवेश किया जायेगा।

Dakhal News

Dakhal News 9 March 2022


bhopal, Lok Sabha Speaker, Om Birla , Wednesday

भोपाल। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला एक दिवसीय दौरे पर बुधवार, 09 मार्च को भोपाल के प्रवास पर रहेंगे। वे यहां विधानसभा के मानसरोवर सभागार में विधानसभा की ओर से संसदीय तथा पुरस्कार 2021, वितरण समारोह में भाग लेंगे।   मध्य प्रदेश विधानसभा द्वारा बुधवार को संसदीय उत्कृष्टता पुरस्कार, 2021 के पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें सर्वश्रेष्ठ मंत्री, सर्वश्रेष्ठ विधायक तथा संसदीय पत्रकारिता से जुड़े प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकारों सहित विधानसभा सचिवालय के सर्वश्रेष्ठ अधिकारी और कर्मचारी का सम्मान होगा। समारोह में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला मुख्य अतिथि के रूप में शामिल होंगे।   कार्यक्रम में विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ, संसदीय कार्य मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा, पुरस्कार समिति के सभापति एवं विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष डॉ सीताशरण शर्मा, लोकसभा के महासचिव उत्पल कुमार सिंह, विधानसभा के प्रमुख सचिव एपी सिंह, मंत्रिमंडल के सदस्य तथा समस्त विधायक उपस्थित रहेंगे।   उल्लेखनीय है कि इसके पूर्व 2008 में उत्कृष्टता पुरस्कार वितरण हुए थे। इन पुरस्कारों को पुनः प्रारंभ करने में विधानसभा अध्यक्ष गौतम की मुख्य भूमिका रही है। कार्यक्रम के उपरांत लोकसभा अध्यक्ष एवं समस्त मंत्रिमंडल तथा विधानसभा सदस्यों के सामूहिक छायाचित्र का आयोजन रखा गया है। तत्पश्चात लोकसभा अध्यक्ष बिरला विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम के निवास पर विशेष स्वल्पाहार के लिए पधारेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 8 March 2022


bhopal, Women took care , Chief Minister Chouhan

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की सुरक्षा का दायित्व अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर मंगलवार को महिला पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों ने संभाला। एसीपी कोतवाली बिट्टू शर्मा मुख्यमंत्री चौहान के कारकेड की प्रभारी रहीं। रक्षित निरीक्षक इरशाद अली ने मुख्यमंत्री का वाहन चलाया। सायबर सैल की इंस्पेक्टर रेनू मुराब ने पायलट गाड़ी की कमान संभाली। मिसरोद थाने की सब इंस्पेक्टर अर्चना तिवारी ने आज वीआईपी शैडो की जिम्मेदारी संभाली।   कारकेड में वार्नर का दायित्व हनुमानगंज थाने की उप निरीक्षक कंचन राजपूत तथा हबीबगंज थाने की उप निरीक्षक सुनीता भलराय पर था और पायलेट का दायित्व थाना बजरिया की उप निरीक्षक भावना शर्मा के पास रहा। थाना कमला नगर की उप निरीक्षक आकांक्षा शर्मा, एसटीएफ की निरीक्षक कंचन राजपूत, चूना भट्टी थाने की उप निरीक्षक गौसिया सिद्दीकी, हबीबगंज थाने की उप निरीक्षक रिद्धी शर्मा, शाहपुरा थाने की उप निरीक्षक संध्या शुक्ला, अशोका गार्डन थाने की उप निरीक्षक योगिता जैन, शहजहांनाबाद थाने की उप निरीक्षक कल्पना गुर्जर भी मुख्यमंत्री चौहान की सुरक्षा में तैनात रहीं।   इसके साथ ही उप निरीक्षक मंजू, उप निरीक्षक मोनिका अबरियो, उप निरीक्षक कोमल गुप्ता, उप निरीक्षक मेघा गोहिया, उप निरीक्षक मेघा उदेनिया ने भी महत्पूर्ण दायित्व निभाए।   उल्लेखनीय है कि कारकेड प्रभारी एसीपी कोतवाली बिट्टू शर्मा अंतरराष्ट्रीय स्तर की जूडो खिलाड़ी रही हैं। उन्होंने 25 से अधिक अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भाग लिया और 15 अंतरराष्ट्रीय पदक प्राप्त किए। इसी प्रकार मुख्यमंत्री चौहान का वाहन चलाने वाली इरशाद अली ने भोपाल के ट्रेफ्रिक प्रबंधन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। रेनू मुराब यू.एन. पीस कीपिंग मिशन तथा सीबीआई में रह चुकी हैं और फर्स्ट शैडो का दायित्व निभाने वाली अर्चना तिवारी मिसरोद थाने में ऊर्जा महिला डैस्क की प्रभारी हैं।

Dakhal News

Dakhal News 8 March 2022


bhopal,One crore food plates, distributed under, Deendayal Antyodaya Rasoi

भोपाल। दीनदयाल अन्त्योदय योजना के द्वितीय चरण में 26 फरवरी 2021 से अभी तक एक करोड़ भोजन थाली का वितरण किया जा चुका है। कोविड महामारी की दूसरी लहर के दौरान 12 अप्रैल से 27 जून 2021 तक लागू लॉकडाउन में 27 लाख 19 हजार लोगों को रसोई केन्द्रों से भोजन कराया गया है। रसोई केन्द्रों में भोजन का वितरण सतत जारी है।   प्रदेश के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने मंगलवार को उक्त जानकारी देते हुए बताया है कि राज्य के गरीब एवं जरूरतमंद व्यक्तियों को सस्ती दर पर पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराने के उद्देश्य से 26 फरवरी 2021 को दीनदयाल अंत्योदय रसोई योजना (द्वितीय चरण) प्रारम्भ की गई थी। इसमें प्रदेश के 52 जिला मुख्यालयों एवं 6 धार्मिक नगरीय निकाय मैहर, ओंकारेश्वर, महेश्वर, अमरकंटक, ओरछा और चित्रकूट में 100 रसोई केन्द्रों का संचालन आरम्भ किया गया है।   उन्होंने बताया कि रसोई केन्द्र में जन-सामान्य को स्वच्छ एवं पौष्टिक भोजन के रूप में रोटी, मौसमी सब्जी, दाल एवं चावल उपलब्ध कराया जाता है। रसोई केंद्रों में प्रतिदिन प्रति व्यक्ति दोपहर के भोजन की व्यवस्था 10 रुपये प्रति थाली की दर से सुबह 10 बजे से दोपहर 3 बजे तक की जा रही है। रसोई केंद्रों में उपयोग में आने वाले खाद्यान्न गेहूँ एवं चावल, एक रुपये प्रति किलो की दर से उचित मूल्य की दुकान के माध्यम से खाद्य विभाग द्वारा उपलब्ध कराया जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 8 March 2022


bhopal,CM Shivraj ,planted Maulshree , Kesia saplings

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने प्रतिदिन पौधरोपण करने के संकल्प के क्रम में सोमवार को राजधानी भोपाल के स्मार्ट उद्यान में मौलश्री और केसिया के पौधे लगाये। मुख्यमंत्री के साथ भोपाल की जन-संवेदना संस्था के राधेश्याम अग्रवाल, अनन्या अग्रवाल तथा दीप्ति शर्मा ने भी पौध-रोपण किया।   मुख्यमंत्री चौहान अपने संकल्प के क्रम में 19 फरवरी 2021 से निरंतर प्रतिदिन पौध-रोपण कर रहे हैं। वे पौधे लगाने और उनके संरक्षण में जन-भागीदारी को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से सामाजिक संस्थाओं और व्यक्तिगत रूप से पर्यावरण-संरक्षण की गतिविधियों में लगे व्यक्तियों के साथ पौध-रोपण करते हैं।   जन-संवेदना संस्था भोपाल में पिछले 17 वर्षों से “मानव सेवा ही माधव सेवा” के मंत्र के साथ सेवा का कार्य कर रही है। पर्यावरण-संरक्षण के दृष्टिगत संस्था द्वारा पिछले कई वर्षों से वृक्षा-रोपण किया जा रहा है। संस्था प्रतिदिन हमीदिया और सुल्तानिया अस्पताल में ग्रामीण क्षेत्रों से आए मरीजों के परिजन के बीच भोजन वितरण करती है। संस्था जरूरतमंदों को आवश्यक सामग्री तथा अभाव ग्रस्त प्रतिभावान बच्चों की फीस, शैक्षणिक सामग्री आदि उपलब्ध कराती है। संस्था द्वारा उपासना स्थलों तथा रैन बसेरों में जीवन-यापन करने वालों के आधार कार्ड बनवाए गए हैं।   आज लगाए गए मौलश्री को संस्कृत में केसव, हिन्दी में मौलसरी या बकूल भी कहा जाता है। यह औषधीय महत्व का वृक्ष है, जिसका सदियों से आयुर्वेद में उपयोग होता आ रहा है। केसिया की छाल और पत्तियों का उपयोग आयुर्वेदिक दवाएँ बनाने में किया जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 7 March 2022


indore,Shubhangi Bhagat ,merged into Panchatattva

इंदौर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत की माताजी शुभांगी भगत का रविवार को इंदौर के रामबाग स्थित मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार हुआ। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने शुभांगी भगत के पार्थिव देह पर पुष्पचक्र अर्पित कर उन्हें अंतिम विदाई दी। अंत्येष्टि में पार्टी पदाधिकारी, मंत्रीगण, जनप्रतिनिधिगण, प्रबुद्धजन एवं कार्यकर्ता शामिल हुए। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत की माताजी शुभांगी भगत का शनिवार को देहांत हो गया था। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने रविवार को भगत के इंदौर के बंगाली चौराहा स्थित निवास 18, नुपुरश्री रेसिडेंसी, ब्रजेश्वरी मेंन, गणेश धाम कॉलोनी पहुंचकर पर शुभांगी भगत के पार्थिव देह को पुष्पचक्र अर्पित कर उन्हें अंतिम विदाई दी। प्रदेश के गणमान्य नागरिकों सहित भारी संख्या में लोगों ने पार्थिव देह के अंतिम दर्शन किये। इसके पश्चात अंतिम यात्रा रामबाग स्थित मुक्तिधाम पहुंची, यहां उनके बड़े सुपुत्र सुहास भगत ने मुखाग्नि दी। रामबाग मुक्तिधाम के सभागार में शोक संवेदना व्यक्त करते हुए भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि माताजी श्रीमती भगत ने अपने परिवार को संस्कार देने का कार्य किया है। उन्होंने अपने पुत्र को देश के लिये पूर्ण रूप से समर्पित कर दिया है। परिवार में अच्छे भाव भी जागृत किए हैं। वह अपने पीछे भरापूरा परिवार छोड़कर गई हैं। भारतीय जनता पार्टी की ओर से श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं और ईश्वर उन्हें अपने श्रीचरणों में स्थान दे ऐसी प्रार्थना करता हूं। राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के प्रांत संघचालक प्रकाश शास्त्री ने कहा कि भगत परिवार में मुझे एवं सभी स्वयंसेवकों को बहुत स्नेह प्राप्त हुआ करता था। जिसमें सुहासजी की माताजी का बहुत बड़ा योगदान था। माता-पिता अपने पुत्र को देश की सेवा के लिये समर्पित कर दें, यह बहुत कठिन होता है। परन्तु शुभांगी भगत ने अपने पुत्र को देश की सेवा करने के लिये सहज स्वीकार किया। ये उस परिवार के संस्कार थे। भगत परिवार को इस दुख की घड़ी में दुख सहन करने की ईश्वर शक्ति प्रदान करें। राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के मालवा प्रांत प्रचारक बलीराम पटेल, प्रदेश सह संगठन मंत्री हितानंद जी, मालवा प्रांत सह कार्यवाह विनीत नवाथे, वरिष्ठ नेता कृष्णमुरारी मोघे, राष्ट्रीय सह कोषाध्यक्ष सांसद सुधीर गुप्ता, प्रदेश शासन के मंत्री कमल पटेल, विश्वास सारंग, तुलसीराम सिलावट, ओमप्रकाश सखलेचा, ऊषा ठाकुर, हरदीपसिंह डंग आदि ने स्व. शुभांगी भगत को श्रद्धांजलि अर्पित की।

Dakhal News

Dakhal News 6 March 2022


bhopal, CM Shivraj planted ,almond and cassia plants ,smart garden

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने प्रतिदिन पौधरोपण करने के संकल्प के क्रम में गुरुवार को राजधानी भोपाल के स्मार्ट पार्क में बादाम और केसिया के पौधे लगाए। इस मौके पर कादम्बिनी समिति के पदाधिकारियों कादम्बिनी शर्मा, प्रतीक कुमार शर्मा और विक्रम श्रीवास्तव ने भी पौध-रोपण किया।   मुख्यमंत्री चौहान ने ट्वीट के माध्यम से इसकी जानकारी साझा करते हुए कहा कि- "आज स्मार्ट पार्क में समाज सेवा को समर्पित संस्था कादंबिनी समिति के पदाधिकारियों के साथ बादाम और केसिया का पौधा लगाया।"   बता दें कि कादम्बिनी शिक्षा एवं समाज कल्याण सेवा समिति करोंद भोपाल वर्ष 1998 से निरंतर स्वछता, पर्यावरण और सामाजिक कार्य कर रही है। साथ ही मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में 116 जोड़ों की शादी की गई। समिति द्वारा गत 15 वर्षों से पर्यावरण पर पेंटिंग प्रतियोगिता की जा रही है और प्रति वर्ष 111 पौधे लगाने का लक्ष्य नियमित चल रहा है। समिति को मध्यप्रदेश शासन से भैया मिश्री लाल पुरस्कार तथा पर्यावरण और सामाजिक कार्य पर एक लाख का पुरस्कार प्राप्त हुआ है। गत 10 वर्ष से पुस्तक उत्सव का आयोजन भी समिति द्वारा किया जा रहा है। महिलाओं और बच्चों को निःशुल्क कम्प्यूटर, सिलाई कड़ाई का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। अब तक 5,647 गरीब बच्चों को प्रशिक्षण देकर 1240 महिलायें जॉब और स्वयं का रोजगार कर रही हैं।   पौधों का महत्व उल्लेखनीय है कि बादाम के पेड़ में गुलाबी और श्वेत रंग के सुंगधित फूल होते हैं। बादाम फायबर से परिपूर्ण होने से पाचन में सहायक होता है। बादाम का सेवन, उच्च रक्तचाप, कब्ज रोग और हृदय रोग में उपयोगी माना गया है। यह पोटेशियम, मैग्नीशियम, कैल्शियम और विटामिन-ई से भरपूर है। केसिया की छाल और पत्तियों का उपयोग आयुर्वेदिक दवाएँ बनाने में किया जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 3 March 2022


bhopal,Minister Dang ,celebrated his birthday, planting saplings

मंदसौर। पर्यावरण, नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री हरदीप सिंह डंग ने बुधवार को मंदसौर जिले के सुवासरा में पीपल, बरगद, नीम (त्रिवेणी) के पौधे रोप कर अपना जन्म-दिन मनाया। मंत्री डंग के साथ नागरिकों ने भी बड़ी संख्या में नीम, बरगद, करंज सहित अन्य प्रजातियों के पौधे रोपे। डंग ने लोगों से अपील की कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के रोज़ पौध-रोपण के संकल्प में साथ देते हुए पृथ्वी को जलवायु परिवर्तन और ग्लोबल वॉर्मिंग जैसी चुनौतियों से बचाने में मदद करें।   मंत्री डंग ने कहा कि परिवार में जन्म-दिवस, पुण्य-तिथि और अन्य कार्यक्रमों में पौध-रोपण अवश्य करें। बुके देने के स्थान पर पौधों का आदान-प्रदान कर पर्यावरण को संतुलित बनाने में योगदान दें।   ऊर्जा बचत का संकल्प नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री डंग ने लोगों को बिजली के किफायती उपयोग का भी संकल्प दिलाया। उन्होंने लोगों को ऊर्जा साक्षरता का पाठ पढ़ाते हुए अपने परिवार, पड़ोस और समाज में इसकी उपयोगिता को जन-जन तक पहुँचाने की अपील की। डंग ने लोगों से कहा कि सौर ऊर्जा जैसे प्राकृतिक ऊर्जा स्त्रोतों को अपनाते हुए ऊर्जा अपव्यय को रोक कर उसे आत्म-निर्भर प्रदेश और देश बनाने में सहभागी बनें।

Dakhal News

Dakhal News 2 March 2022


bhopal,Congress

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस मीडिया उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने मुख्यमंत्री के गृह जिले में आयोजित रुद्राक्ष महोत्सव को रद्द कराने और लोक निंदा होने पर वापस शुरू कराने के मामले पर सवाल खड़े किये हैं। भूपेन्द्र गुप्ता ने कहा कि सरकार शासकीय स्तर पर धार्मिक आयोजन करने के लिए बड़ी-बड़ी घोषणाएं करती है। 10 लाख लोगों की कथित राजनीतिक भीड़ को संभाल लेती है मगर शंकर भगवान के 2 लाख भक्तों को संभालने में फेल हो जाती है। उनका कार्यक्रम रद्द करा देती है। कांग्रेस नेता ने तंज कसते हुए कहा कि क्या यही सरकार की धार्मिकता है? क्या यही आपकी गवर्नेंस है इसका जवाब जनता को नहीं तो शिवराज जी कम से कम भोले बाबा को ही दे दीजिए। जिनके प्रांगण में 11 लाख दिए लगाने का आयोजन किया है। भोले बाबा दियों से नहीं भक्तों की कल्याण से प्रसन्न होते हैं। जिसमें सरकार पूरी तरह फेल है।

Dakhal News

Dakhal News 2 March 2022


bhopal,main objective , National Education Policy ,Minister Dr. Yadav

भोपाल । उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति का प्रमुख उद्देश्य विद्यार्थियों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के साथ कौशल को मजबूत करना है। साथ ही शिक्षा के साथ रोजगार को बढ़ावा देना, शिक्षा नीति में छात्रों में रचनात्मक सोच और तार्किक निर्णय और नवाचार की भावना को प्रोत्साहित करना है। उक्त बातें मंत्री डॉ. यादव ने बुधवार को मंत्रालय में राष्ट्रीय शिक्षा नीत-2020 के क्रियान्वयन के संबंध में विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ समीक्षा करते हुए कही।   मंत्री डॉ. यादव ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति ग्रामीण और शहरी भारत में प्राथमिक शिक्षा से लेकर उच्च शिक्षा के साथ व्यवसायिक प्रशिक्षण के एकीकृत करने के लिए एक व्यापक रूपरेखा प्रदान करती है। व्यवसायिक विषयों पर विद्यार्थियों को फील्ड प्रोजेक्ट, इंटर्नशिप, एप्रेन्टिसशिप और कम्यूनिटी इंगेजमेंट के लिए किसान-कल्याण तथा कृषि, औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन, पर्यटन, कुटीर एवं ग्रामोद्योग, उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण, पंचायत एवं ग्रामीण विकास और महिला-बाल विकास विभाग का समन्वय आवश्यक है। उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि ऐसा कार्य करें जिससे अगला सत्र पूर्ण रूप से व्यवस्थित हो ।   अपर मुख्य सचिव, उच्च शिक्षा शैलेन्द्र सिंह ने विभिन्न विभागों के उपस्थित अधिकारियों को विभाग वार पोर्टल तैयार करने और विभागीय नोडल अधिकारी नियुक्त करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इससे विद्यार्थियों को सुविधा होगी कि उन्हें किस से सम्पर्क स्थापित करना होगा। सिंह ने कहा कि हर जिले के 8 से 10 उद्योगों को चिन्हाकिंत करें। इंटर्नशिप के लिए उच्च शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ कोर्स डिजाइन करें। उन्होंने कहा कि सभी विभाग अपने पोर्टल पर यह भी उल्लेखित करें कि कौन सी संस्था क्या और किस विषय पर केन्द्रित होकर कार्य करती है। व्यवसायिक पाठ्क्रमों के क्या विषय होने चाहिए संबंधित विभाग इसका सुझाव भी दें। पर्यटन विभाग प्राइवेट होटलों से भी टाइअप करें। अपर मुख्य सचिव सिंह ने उच्च शिक्षा विभाग के अधिकारियों को एक सेन्ट्रल पोर्टल बनाकर सभी जानकारी एकत्रित करने के निर्देश दिए।   इस अवसर पर आयुक्त, उच्च शिक्षा दीपक सिंह तथा पंचायत एवं ग्रामीण विकास, महिला बाल विकास, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग, किसान-कल्याण तथा कृषि आदि विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 2 March 2022


bhopal,CM Chouhan, remembers Sarojini Naidu , death anniversary

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को भारत कोकिला सरोजिनी नायडू की पुण्य-तिथि पर उनका स्मरण किया। मुख्यमंत्री चौहान ने अपने निवास कार्यालय स्थित सभागार में उनके चित्र पर माल्यार्पण कर पुष्पांजलि अर्पित की।   उल्लेखनीय है कि सरोजिनी नायडू का जन्म 13 फरवरी 1879 में हैदराबाद में हुआ था। भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में योगदान देने वाली सरोजनी जी भारत कोकिला के नाम से प्रसिद्ध हुईं। उन्होंने 13 वर्ष की आयु में "लेडी ऑफ द लेक" नामक कविता रची। श्रीमती नायडू को लंदन और कैम्ब्रिज में अध्ययन का मौका मिला। गोल्डन थ्रैशोल्ड उनका पहला कविता संग्रह था। उनके दूसरे तथा तीसरे कविता संग्रह "बर्ड ऑफ टाइम" तथा "ब्रोकन विंग" ने उन्हें एक सुप्रसिद्ध कवियत्री बना दिया।   नायडू ने अनेक राष्ट्रीय आंदोलनों का नेतृत्व किया और जेल भी गई। वे एक वीरांगना की भाँति गाँव-गाँव घूमकर देश-प्रेम का अलख जगाती रहीं। उनके वक्तव्य जनता के हृदय को झकझोर देते थे और देश के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर करने के लिए प्रेरित करते थे। वे बहुभाषाविद् थी और क्षेत्रानुसार अपना भाषण अंग्रेजी, हिंदी, बंगला या गुजराती में देती थीं। लंदन की सभा में अंग्रेजी में बोलकर वहाँ उपस्थित सभी श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया था। उनका देहांत 2 मार्च 1949 को हुआ। भारत सरकार ने उनके सम्मान में डाक टिकट भी जारी किया।   मुख्यमंत्री चौहान ने उन्हें स्मरण करते हुए ट्वीट किया है कि– "राष्ट्र की सेवा और समाज की उन्नति के अप्रतिम कार्यों के लिए आपको सर्वदा याद किया जायेगा।"

Dakhal News

Dakhal News 2 March 2022


bhopal,Our culture,our heritage,  Kamal Patel

हरदा/ भोपाल। हरदा जिले के चारुवा हरिपुरा स्थित चमत्कारिक गुप्तेश्वर महादेव मंदिर परिसर से पूरे 1 माह चलने वाले मेले का शुभारंभ महाशिवरात्रि पर्व से शुरू हो गया है। किसान नेता एवं मध्य प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल ने महाशिवरात्रि पर्व पर मंगलवार को चमत्कारिक गुप्तेश्वर महादेव का विधिवत पूजा-अर्चना और बाबा का अभिषेक कर मेले का शुभारंभ किया। इस अवसर पर कृषि मंत्री पटेल ने मेले में उपस्थित धार्मिक श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए कहा कि विगत 16 वर्षों से चमत्कारिक गुप्तेश्वर महादेव मंदिर के परिसर में मेले का आयोजन किया जा रहा है। पूरे 1 माह चलने वाले इस मेले में भारतीय संस्कृति और हमारी परंपराओं का दर्शन होता है। सभ्यता और संस्कृति बनी रहे इसके लिए ऐसे आयोजन बहुत जरूरी है। हमारी संस्कृति ही हमारी विरासत है। आज भी गुप्त है गुप्तेश्वर मंदिर का रहस्य   हरदा से खिरकिया नगर से करीब 8 किमी दूर स्थित प्राचीन गुप्तेश्वर मंदिर जिला व प्रदेश में प्रसिद्धी प्राप्त हैं। जानकारी के अनुसार स्वर्णकार समाज के भक्त को भगवान भोले ने साक्षात दर्शन देकर टीले के नीचे मंदिर दबे होने की बात कही। इसके बाद खुदाई करने पर उत्पन्न मंदिर से यहां महाशिवरात्रि में आस्था देखते ही बनती हैं। खुदाई में मंदिर निकलने की यह चमत्कार लगभग 250 वर्ष पहले का हैं।   इतिहास में चंपावती नगरी तथा वर्तमान में अब चारूवा से मात्र डेढ किमी दूर हरिपुरा में कल- कल बहती कालीमाचक नदी के बाणगंगा तट पर स्थित स्वयं - भू भगवान गुप्तेश्वर का टीले पर शिवलिंग हजारों लोगों के आस्था का केंद्र बना हुआ है। बदलते परिवेश में अब यहां आस्था के साथ पर्यटन स्थल भी बनता जा रहा है, जो तहसील की शान बन चुका है। वैसे शिवलिंग की स्थापना के बारे में कई पौराणिक कथाएं प्रचलित है, मगर मंदिर वर्षों पुराना होना इतिहास के कागजों में दर्ज है। कथाओं में ही बताया गया कि गुप्तेश्वर मंदिर गुप्त स्थान से निकलने के कारण मंदिर का नामकरण गुप्तेश्वर किया गया है।   भगवान शंकर ने दिया था स्वप्न   चारूवा के गुप्तेश्वर मंदिर जहां वर्षों पुराना है, वहीं एक कथा यह भी प्रचलित है, कि मंदिर के विशेष में स्वयं भोलेनाथ ने एक परिवार के मुखिया को स्वप्न में आकर कहा था, कि चारूवा में मंदिर है, उसे बाहर निकालों। बताया जाता है कि भगवान भोलेनाथ ने दर्शन दिए और टीले नीचे शिवलिंग होने की बात कही। प्रात: जब यह बात गांव में फैली और शिवलिंग ही नहीं बल्कि समूचा मंदिर ही प्रकट हुआ। इसके बाद से अन्न जल के लिए त्राही- त्राही यह क्षेत्र खुशहाल होने लगा। मंदिर के बाजू में कल - कल बहती नदी ने यहां के सौंदर्य को बढ़ाया है।   गुफा का रहस्य बरकरार   मंदिर के पीछे एक गुफा भी है, जिसका रहस्य बरकरार है। इसे पार करने की हिम्मत आज तक कोई नहीं उठा पाया है। इसके बारे में किदवंतिया रही है, कोई कहता है यह मकड़ाई रियासत तक तो कोई सांगवा किले तक, कुछ लोग चारूवा स्थित गढी तक जाना बताते है, लेकिन वास्तविक स्थिति कोई नहीं बता पा रहा हैं।

Dakhal News

Dakhal News 1 March 2022


Video

Page Views

  • Last day : 8492
  • Last 7 days : 59228
  • Last 30 days : 77178

x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved © 2022 Dakhal News.