राजनीति


BHOPAL,Farmers will now, become entrepreneurs, through cooperative,Minister Dr. Bhadoria

भोपाल। सहकारिता मंत्री डॉ. अरविन्द सिंह भदौरिया ने कहा है कि सहकारिता के माध्यम से अब प्रदेश के कृषक उद्यमी बनेंगे। राज्य सरकार ने इसके लिये प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों एवं बहुउद्देश्यीय सहकारी समितियों के माध्यम से सहकारी संस्थाओं में पोस्ट हार्वेस्ट कृषि आधारित उद्योगों की स्थापना किये जाने की योजना क्रियान्वित की है। इन संस्थाओं द्वारा सदस्य कृषकों की भागीदारी से ये उद्योग स्थापित होंगे। उन्होंने बताया कि इन उद्योगों की स्थापना से सहकारी संस्थाओं को होने वाले लाभ का विभाजन कृषकों की हिस्सेदारी के आधार पर किया जायेगा।   सहकारिता मंत्री डॉ. भदौरिया ने शुक्रवार को मीडिया को जारी अपने बयान में कहा कि सहकारी संस्थाओं में प्रथमत: 202 संस्थाओं में पोस्ट हार्वेस्ट कृषि आधारित उद्योगों की स्थापना की जा रही है। इसे आगामी दिनों में 1200 संस्थाओं तक बढ़ाने की योजना है। उन्होंने बताया कि संस्थाओं में पोस्ट हार्वेस्ट कृषि आधारित उद्योगों की स्थापना को बढ़ावा देने के लिये प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों को एक प्रतिशत ब्याज दर पर ऋण तथा अन्य संस्थाओं को 3 प्रतिशत ब्याज अनुदान दिया जायेगा।   मंत्री डॉ. भदौरिया ने कहा कि प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियाँ एवं विपणन संस्थाएँ कृषकों को उनकी आवश्यकताओं की समस्त सेवाएँ ऑनलाइन उपलब्ध करायेंगी। इसके लिये संस्थाओं में कृषकों की आवश्यकता पूर्ति के लिए कृषक सुविधा केन्द्र संचालित किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि सहकारी समितियों द्वारा प्रथमत: 296 संस्थाओं में कृषक सुविधा केन्द्र प्रारंभ किये गये हैं। इन्हें बढ़ाकर एक वर्ष में 1600 संस्थाओं में चालू किये जाने की योजना है। प्रदेश की प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों एंव बहुद्देश्यीय सहकारी समितियों में आवश्यकतानुसार गोदाम निर्माण तथा अन्य आवश्यक आधारभूत निर्माण कार्य कराये जायेंगे।   उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के कृषकों की आय को दोगुना करने का संकल्प व्यक्त किया गया है। प्रदेश के कृषकों की आय को दोगुना करने के लक्ष्य को प्राप्त करने में सहकारिता विभाग की अहम भूमिका होगी। इसके लिये सहकारी संस्थाओं में पोस्ट हार्वेस्ट कृषि आधारित उद्योगों की स्थापना पर बल दिया जा रहा है।

Dakhal News

Dakhal News 4 December 2020


BHOPAL,Farmers will now, become entrepreneurs, through cooperative,Minister Dr. Bhadoria

भोपाल। सहकारिता मंत्री डॉ. अरविन्द सिंह भदौरिया ने कहा है कि सहकारिता के माध्यम से अब प्रदेश के कृषक उद्यमी बनेंगे। राज्य सरकार ने इसके लिये प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों एवं बहुउद्देश्यीय सहकारी समितियों के माध्यम से सहकारी संस्थाओं में पोस्ट हार्वेस्ट कृषि आधारित उद्योगों की स्थापना किये जाने की योजना क्रियान्वित की है। इन संस्थाओं द्वारा सदस्य कृषकों की भागीदारी से ये उद्योग स्थापित होंगे। उन्होंने बताया कि इन उद्योगों की स्थापना से सहकारी संस्थाओं को होने वाले लाभ का विभाजन कृषकों की हिस्सेदारी के आधार पर किया जायेगा।   सहकारिता मंत्री डॉ. भदौरिया ने शुक्रवार को मीडिया को जारी अपने बयान में कहा कि सहकारी संस्थाओं में प्रथमत: 202 संस्थाओं में पोस्ट हार्वेस्ट कृषि आधारित उद्योगों की स्थापना की जा रही है। इसे आगामी दिनों में 1200 संस्थाओं तक बढ़ाने की योजना है। उन्होंने बताया कि संस्थाओं में पोस्ट हार्वेस्ट कृषि आधारित उद्योगों की स्थापना को बढ़ावा देने के लिये प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों को एक प्रतिशत ब्याज दर पर ऋण तथा अन्य संस्थाओं को 3 प्रतिशत ब्याज अनुदान दिया जायेगा।   मंत्री डॉ. भदौरिया ने कहा कि प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियाँ एवं विपणन संस्थाएँ कृषकों को उनकी आवश्यकताओं की समस्त सेवाएँ ऑनलाइन उपलब्ध करायेंगी। इसके लिये संस्थाओं में कृषकों की आवश्यकता पूर्ति के लिए कृषक सुविधा केन्द्र संचालित किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि सहकारी समितियों द्वारा प्रथमत: 296 संस्थाओं में कृषक सुविधा केन्द्र प्रारंभ किये गये हैं। इन्हें बढ़ाकर एक वर्ष में 1600 संस्थाओं में चालू किये जाने की योजना है। प्रदेश की प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों एंव बहुद्देश्यीय सहकारी समितियों में आवश्यकतानुसार गोदाम निर्माण तथा अन्य आवश्यक आधारभूत निर्माण कार्य कराये जायेंगे।   उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के कृषकों की आय को दोगुना करने का संकल्प व्यक्त किया गया है। प्रदेश के कृषकों की आय को दोगुना करने के लक्ष्य को प्राप्त करने में सहकारिता विभाग की अहम भूमिका होगी। इसके लिये सहकारी संस्थाओं में पोस्ट हार्वेस्ट कृषि आधारित उद्योगों की स्थापना पर बल दिया जा रहा है।

Dakhal News

Dakhal News 4 December 2020


bhopal,Shivraj government ,promoting exemption,loot of farmers , CPI-M

भोपाल। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने प्रदेश सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं। पार्टी के राज्य सचिव जसविंदर सिंह ने शुक्रवार को मीडिया को जारी अपने बयान में कहा है कि जब पूूरे देश के किसान मंडी व्यवस्था को खत्म किए जाने के खिलाफ आंदोलन कर दिल्ली को चारों दिशाओं से घेरे हुए हैं, तब शिवराज सरकार की ओर से निजी मंडियां खोलने की बात कर न केवल अपने किसान विरोधी चरित्र को उजागर किया है।    उन्होंने कहा है कि इस समय पूरे प्रदेश की मंडियों में किसानों की लूट मची हुई है। उत्तरी मध्यप्रदेश में बाजरा और धान उत्पादक किसान अपनी फसलों को औने-पौने दामों पर बेचने के लिए मजबूर है। वहीं निमाड़ में कपास उत्पादक किसान अपनी फसल का वाजिब दाम नहीं मिल रहे हैं। नीमच में प्याज उत्पादक मंडियों में अपना प्याज फैलाने को मजबूर हैं। मक्का उत्पादक किसानों की लूट हो रही है। तब प्रदेश की भाजपा सरकार इस लूट को रोकने और किसानों की फसल की खरीद को सुनिश्चित कर उनकी फसल को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदने की गांरटी देने की बजाय निजी मंडियों की व्यवस्था कर इस लूट को संस्थागत रूप देना चाहती है।   माकपा राज्य सचिव जसविंदर सिंह ने कहा है कि जब पूरे देश को किसान मंडी व्यवस्था को खत्म करने के केंद्र सरकार के निर्णय के विरोध में एक सप्ताह से दिल्ली घेर कर बैठा है और मंडी व्यवस्था को मजबूत करने की बात कर रहा है, तब शिवराज सरकार का यह निर्णय किसानों को उत्तेजित कर आग में घी डालने का काम करेगा। उन्होंने मांग करते हुए कहा कि शिवराज सरकार को इस निर्णय को तुरंत वापस लेना चाहिए, अन्यथा किसान दिल्ली के साथ साथ शिवराज सरकार को भी इस निर्णय को वापस लेने के लिए बाध्य करेंगे।   गौरतलब है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक दिन पहले यानी गुरुवार को मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत पांच लाख किसानों के खातों में 100 करोड़ रुपये सिंगल क्लिक के माध्यम से ट्रांसफर किये थे। इस दौरान उन्होंने अपने संबोधन में प्रदेश में निजी मंडियां खोलने की बात कही थी। इसी को लेकर माकपा ने शिवराज सरकार पर निशाना साधा है।

Dakhal News

Dakhal News 4 December 2020


bhopal,BJP leaders, including CM Shivraj ,salute, birth anniversary ,Dr. Rajendra Prasad

भोपाल। भारत के पहले राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद की आज गुरुवार को 136वीं जयंती है। उनका जन्म 3 दिसंबर, 1884 को बिहार के सीवान जिले के जीरादेई गांव में हुआ था। वह अत्यंत दयालु और निर्मल स्वभाव के महान व्यक्ति थे। उनकी जयंती पर मप्र के सीएम शिवराज सिंह चौहान समेत भाजपा नेताओं ने उन्हें स्मरण कर विनम्र श्रद्धांजलि दी है।   सीएम शिवराज ने ट्वीट कर भारत रत्न डॉ राजेन्द्र प्रसाद की जयंती पर उन्हें नमन करते हुए लिखा ‘अंग्रेज़ी हुकूमत की नींव हिलाने वाले स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, सरल और सहज स्वभाव के धनी देश के प्रथम राष्ट्रपति भारत रत्न डॉ. राजेन्द्र प्रसाद को जयंती पर सादर नमन।   भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने अपने ट्वीट में कहा ‘भारत के प्रथम राष्ट्रपति, भारत रत्न डॉ. राजेन्द्र प्रसाद जी की जयन्ती पर उन्हें कोटि - कोटि नमन।भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने डॉ राजेन्द्र प्रसाद को नमन करते हुए कहा ‘भारतीय गणराज्य के प्रथम राष्ट्रपति, सादगी, सेवा, त्याग और देशभक्ति की प्रतिमूर्ति डॉ राजेन्द्र प्रसाद जी की जयंती पर कोटि-कोटि नमन न्याय के रक्षक अभिवक्ता बंधुओं को 'अभिवक्ता दिवस' की हार्दिक शुभकामनाएं!

Dakhal News

Dakhal News 3 December 2020


bhopal, State BJP President ,Sharma joins ,training class

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी द्वारा प्रदेश के सभी मंडलों में कार्यकर्ताओं के लिए प्रशिक्षण वर्ग आयोजित किए जा रहे हैं। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वी.डी.शर्मा गुरुवार को ऐसे ही एक प्रशिक्षण वर्ग में सामान्य प्रशिक्षणार्थी के रूप में शामिल हुए।    राजधानी भोपाल के पंचशीलनगर मंडल का प्रशिक्षण वर्ग गुरुवार को आयोजित किया गया। भाई रतन कुमार भवन में यह प्रशिक्षण वर्ग प्रात: 11.00 बजे से आयोजित किया गया। प्रदेश अध्यक्ष वी.डी.शर्मा का निवास क्षेत्र चार इमली पंचशीलनगर मंडल में ही आता है। इसके अनुसार शर्मा ने भी इस प्रशिक्षण वर्ग में भाग लिया और एक सामान्य प्रशिक्षणार्थी के रूप में वर्ग की गतिविधियों में भाग लिया। वर्ग के दौरान प्रदेश अध्यक्ष शर्मा पूर्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता और जिला भाजपा अध्यक्ष सुमित पचौरी के बीच सबसे आगे की पंक्ति में बैठे। इसके पूर्व प्रदेश अध्यक्ष ने कार्यक्रम स्थल पर लगाई गई पोस्टर प्रदर्शनी का उद्घाटन और अवलोकन भी किया।

Dakhal News

Dakhal News 3 December 2020


bhopal, BJP leaders, including CM Shivraj , birthday greetings

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा का आज बुधवार को अपना 60वां जन्मदिन मना रहे हैं। उनके जन्मदिन पर मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत भाजपा नेताओं ने उन्हें जन्मदिन की शुभकामनाएं देते हुए उनके दीघार्य होने की कामना की है।   सीएम शिवराज ने ट्वीट कर जेपी नड्डा को जन्मदिन की बधाई देते हुए लिखा ‘@BJPyIndia के राष्ट्रीय अध्यक्ष, आदरणीय श्री @JPNadda जी के नेतृत्व में देश के अनेक राज्यों में भाजपा ने ऐतिहासिक विजय प्राप्त की है। आपके कुशल नेतृत्व में ऐसे ही सतत सशक्त और सफल होती रहे; आप स्वस्थ रहें, चिरंजीवी हों; यही कामना! आपको जन्मदिन पर आत्मीय बधाई! एक अन्य ट्वीट कर उन्होंने कहा ‘दृढ़ इच्छाशक्ति के धनी, कर्मठ, कर्तव्यनिष्ठ, मा. श्री @JPNadda जी आपसे हम सबने सीखा कि विनम्र रहते हुए भी महान लक्ष्यों व उद्देश्यों को कैसे सुगमता से प्राप्त कर सकते हैं! आपके अद्वितीय मार्गदर्शन का लाभ @BJPyIndia के साथ साथी कार्यकर्ताओं को भी सर्वदा मिलता रहे, यही शुभेच्छा!भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने भी जेपी नड्डा को जन्मदिन पर बधाई दी है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा ‘भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष, कुशल संगठक, कर्मठता एवं सहजता की प्रतिमूर्ति श्री @JPNadda जी को जन्मदिन के पुनीत अवसर पर मंगलमय बधाईयां एवं अशेष शुभकामनाएं।   भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने अपने शुभकामना संदेश में कहा ‘त्वं जीव शतं वर्धमान: !!! लाखों कार्यकर्ताओं के प्रेरणास्त्रोत और प्तक्चछ्वक्क के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री @JPNadda जी को जन्मदिन की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं। प्रभु श्रीराम आपको सदा स्वस्थ व दीर्घायु रखे और आपके मार्गदर्शन में पार्टी की विजय पताका सम्पूर्ण भारत में लहराए, यही कामना है।    गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने राष्ट्रीय अध्यक्ष को जन्मदिन पर शुभकामनाएं देते हुए कहा ‘सबसे बड़े राजनीतिक संगठन भारतीय जनता पार्टी के यशस्वी राष्ट्रीय अध्यक्ष और हम सबके प्रेरणास्रोत श्री @JPNadda जी को जन्मदिन की असीम शुभकामनाएं। आपके कुशल एवं ऊर्जावान नेतृत्व में पार्टी देश में लगातार मजबूत होकर विस्तार कर रही है। मां पीताम्बरा आपको सदैव स्वस्थ और प्रसन्न रखें।

Dakhal News

Dakhal News 2 December 2020


bhopal,Improvement , health services, should be felt , citizens, Minister Dr. Chaudhary

भोपाल। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने कहा कि प्रदेश के उप स्वास्थ्य केन्द्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, सिविल अस्पताल और जिला अस्पतालों में सरकार द्वारा नागरिकों के लिये अनेक सुविधाएं उपलब्ध करवाई गई हैं। विभाग इन सुधारों को नागरिकों को महसूस भी करवाये। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि एएनएम और आशा कार्यकर्ताओं के प्रशिक्षण पर विशेष जोर दिया जाये। यह प्रशिक्षण महज औपचारिक न रहे, परिणामदायक बनें। यह बात मंत्री डॉ. चौधरी ने मंगलवार को मंत्रालय में आत्मनिर्भर भारत संबंधी समीक्षा बैठक में कही।   स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि आयुष्मान भारत निरामय कार्यक्रम के अंतर्गत सभी पात्र परिवार, आयुष्मान कार्ड बनाये जायें। इसकी जानकारी आम लोगों को भी दी जाये। उन्होंने कहा कि आयुष्मान कार्ड बनाये जाने की प्रक्रिया में तेजी आई है। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि 12 हजार प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र और 10 हजार उप स्वास्थ्य केन्द्र को हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर में बदलने की कार्यवाही को तेजी से किया जाये। मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि हेल्थ और वेलनेस सेंटर बन जाने पर कई प्रकार की बीमारियों की दवाएं और जांचों की सुविधा स्वास्थ्य केन्द्रों पर उपलब्ध होगी।    बैठक में बताया गया कि उप स्वास्थ्य केन्द्र में नियुक्त सीएचओ टेली-मेडीसिन के माध्यम से जिला अस्पताल के विशेषज्ञ डॉक्टर को मरीज के लक्षणों से अवगत करा कर उचित उपचार का मार्गदर्शन प्राप्त कर मरीज को उप केन्द्र स्तर पर जिले के विशेषज्ञ डॉक्टर से मिलने वाले इलाज की सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही है। यह व्यवस्था बहुत कारगर है। उन्होंने कहा कि पिछले 2 माह में इस व्यवस्था के अंतर्गत उप स्वास्थ्य केन्द्र पर पदस्थ प्रशिक्षित नर्स, सीएचओ ने पूरे प्रदेश में 50 हजार से अधिक कॉल कर इतने ही मरीजों को विशेषज्ञ चिकित्सकों की सुविधा उपलब्ध कराई है।   स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के ग्रामीण क्षेत्रों के सभी प्रसव केन्द्रों पर आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जायें। उन्होंने कहा कि 1600 प्रसव केन्द्रों पर 52 करोड़ की लागत से किये जाने वाले कार्यों को जल्द पूरा किया जाये। बैठक में बताया गया कि सुरक्षित मातृत्व प्रसव पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। बच्चों के टीकाकरण कार्यक्रम के संबंध में जीरो से 5 वर्ष आयु और जीरो से एक वर्ष आयु के सौ फीसदी बच्चों का टीकाकरण हो। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि वेक्सीन के महत्व से आम लोगों को परिचित करायें।    उन्होंने बताया कि कोविड-19 के वेक्सीन आने की हम प्रतीक्षा कर रहे हैं, ताकि इस बीमारी से मुक्ति मिले। जबकि जिन बीमारियों से मुक्ति दिलाने वाले वेक्सीन पहले से ही उपलब्ध हैं, उन्हें अपने बच्चों को नहीं लगवाना बड़ी भूल हो सकती है। विभागीय अमला नागरिकों को प्रेरित करें कि अपने बच्चों को कई प्रकार के गंभीर रोगों से बचाने के लिये उपलब्ध वेक्सीन का टीकाकरण समय पर करवायें। बैठक में एसीएस लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मोहम्मद सुलेमान, आयुक्त स्वास्थ्य डॉ. संजय गोयल और एम.डी. एनएचएम छवि भारद्वाज सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Dakhal News

Dakhal News 1 December 2020


khajuraho,Roadmap should, prepared , increase tourism , Khajuraho, Vishnudutt Sharma

खजुराहो। पर्यटन नगरी को विकसित करने तथा यहां के पर्यटन को बढ़ाने पर क्षेत्रीय सांसद व भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा ने विशेष रूचि दिखाई है। मंगलवार को विभाग अधिकारियों की समीक्षा बैठक लेते हुए श्री शर्मा ने कलेक्टर सहित सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे खजुराहो का पर्यटन विकास करने का रोडमैप तैयार करें। उन्होंने खजुराहो को रोल मॉडल बनाने की इच्छा जाहिर करते हुए अधिकारियों से कहा कि यह कार्य पूरी निष्ठा और ईमानदारी से करें।    पर्यटन नगरी में स्थित मप्र टूरिज्म के होटल झंकार में भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष एवं क्षेत्रीय सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने विभागीय अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में खजुराहो के पर्यटन विकास हेतु कार्ययोजना के लिए रोडमैप तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि खजुराहो में पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं लेकिन इसका एक रोडमैप तैयार कर उस पर्यटन को उभारा जाए। उन्होंने कहा कि कई ऐसे छोटे स्थल हैं, जहां पर्यटकों की भीड़ लगी रहती है इसलिए ऐसे स्थानों से प्रेरणा लेकर खजुराहो का विकास किया जाना चाहिए।   क्षेत्रीय सांसद वीडी शर्मा ने खजुराहो सर्किट हाउस में राजनगर जनपद पंचायत अंतर्गत ग्राम पंचायतों में होने वाले करोड़ों रूपए के निर्माण कार्यों का भूमिपूजन और लोकार्पण किया। उन्होंने इस अवसर पर कहा कि भाजपा सिर्फ विकास पर भरोसा रखती है। उन्होंने पूर्व कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि 15 महीने के लिए आई यह सरकार भाजपाइयों का उत्पीडऩ करती रही जिससे उसे सबक सीखना पड़ा।  उन्होंने कहा कि कांग्रेस और विपक्ष को देश की जनता लगातार नकार रही है। एक सवाल के जवाब में कहा कि किसानों को कांगे्रस न्यूनतम समर्थन मूल्य को लेकर भ्रमित कर रही है। खराब सड़कों को जल्द ठीक कराने और खजुराहो को स्वच्छ तथा सुंदर बनाने की उन्होंने बात कही। 

Dakhal News

Dakhal News 1 December 2020


bhopal,Digital literacy ,needed today,Minister Scindia

भोपाल। तकनीकी शिक्षा कौशल विकास एवं रोजगार मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि डिजिटल साक्षरता आज की जरूरत है। कोविड ने हम सभी को डिजिटल होने के लिए मजबूर किया है। उन्‍होंने कहा कि हमें तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में रोजगार को बढ़ावा देने के लिए बच्चों में ऐसी मानसिकता को विकसित करना होगा, जहां वे सिर्फ इंजीनियरिंग के विभिन्न विषयों पर केन्द्रित न रहकर आधुनिकतम तकनीकों की व्यवहारिक जानकारी से भी पूर्ण रूप से वाकिफ हो। यह बात मंत्री सिंधिया ने मंगलवार को वर्चुअल एम्पलाईविलिटी कॉन्क्लेव-2020 का शुभारंभ करते हुए कही।    मंत्री सिंधिया ने कहा कि प्रौद्यागिकी जीवन के हर क्षेत्र में लागू होती है। शैक्षणिक संस्थानों में सैद्धांतिक ज्ञान से ज्यादा व्यवहारिक पढ़ाई पर जोर दिया जाना चाहिए। उद्योगों की जरूरत के हिसाब से विद्यार्थियों को तैयार करने के लिए यह जरूरी है कि फैकल्टी को भी उसकी जानकारी हो। सिंधिया ने कहा कि भविष्य में उद्योगों के विशेषज्ञों को विजिटिंग फैकल्टी के रूप में जोड़ा जाएगा। तकनीकी शिक्षा विभाग द्वारा रोजगार कौशल और उद्यमिता में सुधार लाने के लिए आइटी क्षेत्र तथा विभिन्न उद्योगों के हितधारकों के साथ परस्पर बातचीत करने के मद्देनजर इण्डस्ट्री अकादमिया मीट आयोजित किया गया था। तकनीकी शिक्षा, सीआईआई यंग इंडियन्स और नैसकाम के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित वर्चुअल कॉन्क्लेव में विभिन्न प्रतिष्ठित उद्योग विशेषज्ञों ने अपने सुझाव प्रस्तुत किए।   एम डी परसिसटेंट सिस्टम के डा.आनंद देशपाण्डे ने सुझाव दिया कि विद्यार्थियों को आत्मनिर्भरता की ओर प्रोत्साहित करना चाहिए। उद्योगों के विशेषज्ञों को महाविद्यालयों में लेक्चर्स के लिए आमंत्रित किया जाना चाहिए। नैसकाम फ्यूचर स्किल की हेड कीर्ति सेठ ने कहा कि टैलेन्ट गेप एक बड़ी समस्या है। बहुविषयक शिक्षा वर्तमान बाजार की मांग है।   कॉग्नेजेंट की माया श्रीकुमार ने कहा कि सिर्फ स्नातक या स्नातकोत्तर के सर्टिफिकेट से काम नहीं चलेगा। विद्यार्थियों को तकनीक के माध्यम से समस्याओं को समझना और उनकी पहचान करना आना आवश्यक है। यह हुनर उन्हें भविष्य में सफलता दिलायेगा। पाठ्यक्रम में विषयों को कम कर कौशल व्यवहारिक ज्ञान में वृद्धि करें। इनफोसिस के सुधीर मिश्रा ने कहा कि विद्यार्थियों को इनफोसिस के इनफि टी क्यू प्लेटफार्म से जुडना चाहिए।   टीसीएस के गौरव ने तीन ए- एवेयरनेस, एग्रेसिव तथा एजीलिटी पर केन्द्रित करने का सुझाव दिया। उन्होंने कहा कि वर्तमान में इच्छुक क्षेत्र में क्या चल रहा है उसकी जानकारी रखे, क्या सिखने की जिज्ञासा तथा नई तकनीक को अपनाने के लिए तैयार होना चाहिए।   कॉन्क्लेव में डॉ. क्रिस सोटिरोपॉल्स सीईओ मेलबर्न, सिस्को के मुरूगन वासुदेवन, इनक्यूबेशन मास्टर्स के अध्यक्ष सी.के. तिवारी, सेजग्रुप के शिवानी अग्रवाल ने भी अपने सुझाव दिए। इस अवसर पर आयुक्त तकनीकी शिक्षा पी नरहरि, संचालक कौशल विकास एस. धनराजू, सीआईआई यंग इंडियन्स के डा. अनुज गर्ग उपस्थित रहे।

Dakhal News

Dakhal News 1 December 2020


bhopal,Digital literacy ,needed today,Minister Scindia

भोपाल। तकनीकी शिक्षा कौशल विकास एवं रोजगार मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि डिजिटल साक्षरता आज की जरूरत है। कोविड ने हम सभी को डिजिटल होने के लिए मजबूर किया है। उन्‍होंने कहा कि हमें तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में रोजगार को बढ़ावा देने के लिए बच्चों में ऐसी मानसिकता को विकसित करना होगा, जहां वे सिर्फ इंजीनियरिंग के विभिन्न विषयों पर केन्द्रित न रहकर आधुनिकतम तकनीकों की व्यवहारिक जानकारी से भी पूर्ण रूप से वाकिफ हो। यह बात मंत्री सिंधिया ने मंगलवार को वर्चुअल एम्पलाईविलिटी कॉन्क्लेव-2020 का शुभारंभ करते हुए कही।    मंत्री सिंधिया ने कहा कि प्रौद्यागिकी जीवन के हर क्षेत्र में लागू होती है। शैक्षणिक संस्थानों में सैद्धांतिक ज्ञान से ज्यादा व्यवहारिक पढ़ाई पर जोर दिया जाना चाहिए। उद्योगों की जरूरत के हिसाब से विद्यार्थियों को तैयार करने के लिए यह जरूरी है कि फैकल्टी को भी उसकी जानकारी हो। सिंधिया ने कहा कि भविष्य में उद्योगों के विशेषज्ञों को विजिटिंग फैकल्टी के रूप में जोड़ा जाएगा। तकनीकी शिक्षा विभाग द्वारा रोजगार कौशल और उद्यमिता में सुधार लाने के लिए आइटी क्षेत्र तथा विभिन्न उद्योगों के हितधारकों के साथ परस्पर बातचीत करने के मद्देनजर इण्डस्ट्री अकादमिया मीट आयोजित किया गया था। तकनीकी शिक्षा, सीआईआई यंग इंडियन्स और नैसकाम के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित वर्चुअल कॉन्क्लेव में विभिन्न प्रतिष्ठित उद्योग विशेषज्ञों ने अपने सुझाव प्रस्तुत किए।   एम डी परसिसटेंट सिस्टम के डा.आनंद देशपाण्डे ने सुझाव दिया कि विद्यार्थियों को आत्मनिर्भरता की ओर प्रोत्साहित करना चाहिए। उद्योगों के विशेषज्ञों को महाविद्यालयों में लेक्चर्स के लिए आमंत्रित किया जाना चाहिए। नैसकाम फ्यूचर स्किल की हेड कीर्ति सेठ ने कहा कि टैलेन्ट गेप एक बड़ी समस्या है। बहुविषयक शिक्षा वर्तमान बाजार की मांग है।   कॉग्नेजेंट की माया श्रीकुमार ने कहा कि सिर्फ स्नातक या स्नातकोत्तर के सर्टिफिकेट से काम नहीं चलेगा। विद्यार्थियों को तकनीक के माध्यम से समस्याओं को समझना और उनकी पहचान करना आना आवश्यक है। यह हुनर उन्हें भविष्य में सफलता दिलायेगा। पाठ्यक्रम में विषयों को कम कर कौशल व्यवहारिक ज्ञान में वृद्धि करें। इनफोसिस के सुधीर मिश्रा ने कहा कि विद्यार्थियों को इनफोसिस के इनफि टी क्यू प्लेटफार्म से जुडना चाहिए।   टीसीएस के गौरव ने तीन ए- एवेयरनेस, एग्रेसिव तथा एजीलिटी पर केन्द्रित करने का सुझाव दिया। उन्होंने कहा कि वर्तमान में इच्छुक क्षेत्र में क्या चल रहा है उसकी जानकारी रखे, क्या सिखने की जिज्ञासा तथा नई तकनीक को अपनाने के लिए तैयार होना चाहिए।   कॉन्क्लेव में डॉ. क्रिस सोटिरोपॉल्स सीईओ मेलबर्न, सिस्को के मुरूगन वासुदेवन, इनक्यूबेशन मास्टर्स के अध्यक्ष सी.के. तिवारी, सेजग्रुप के शिवानी अग्रवाल ने भी अपने सुझाव दिए। इस अवसर पर आयुक्त तकनीकी शिक्षा पी नरहरि, संचालक कौशल विकास एस. धनराजू, सीआईआई यंग इंडियन्स के डा. अनुज गर्ग उपस्थित रहे।

Dakhal News

Dakhal News 1 December 2020


bhopal, Former Chief Minister, Kamal Nath ,wishes , Guru Nanak Dev Jayanti

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने गुरुनानक देवी जयंती पर उनका स्मरण करते हुए प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दी है।   कमलनाथ ने ट्वीट कर लिखा ‘सिख धर्म के प्रथम गुरु श्री गुरु नानक देव जी के 551 वे प्रकाश पर्व की सभी को लख-लख बधाई। गुरु नानक देव जी के मानवता, परोपकार, इंसानियत, भलाई, समाज सुधार के लिये किये गये कार्य अविस्मरणीय होकर आज भी हमारे लिये प्रेरणादायी है।

Dakhal News

Dakhal News 30 November 2020


bhopal, Former Chief Minister, Kamal Nath ,wishes , Guru Nanak Dev Jayanti

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने गुरुनानक देवी जयंती पर उनका स्मरण करते हुए प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दी है।   कमलनाथ ने ट्वीट कर लिखा ‘सिख धर्म के प्रथम गुरु श्री गुरु नानक देव जी के 551 वे प्रकाश पर्व की सभी को लख-लख बधाई। गुरु नानक देव जी के मानवता, परोपकार, इंसानियत, भलाई, समाज सुधार के लिये किये गये कार्य अविस्मरणीय होकर आज भी हमारे लिये प्रेरणादायी है।

Dakhal News

Dakhal News 30 November 2020


jabalpur,  Bhopal MLA, Arif Masood, gets anticipatory bail

जबलपुर। धार्मिक भावनाएं भड़काने के मामले में फंसे भोपाल के कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद को हाईकोर्ट से राहत मिल गई है। शुक्रवार सुबह हाईकोर्ट ने उन्हें अग्रिम जमानत दे दी। उन्हें 50 हजार रुपये का मुचलका भरना होगा। मसूद के वकील अजय गुप्ता ने बताया कि हाईकोर्ट ने आदेश जारी कर दिए हैं। जल्द ही आदेश की कापी भी मिल जाएगी।   राजधानी भोपाल की तलैया पुलिस ने इकबाल स्टेडियम में किए गए प्रदर्शन के मामले में विधायक मसूद के खिलाफ पहले धारा 144 के उल्लंघन का केस दर्ज किया था, लेकिन बाद में धार्मिक भावनाएं भड़काने की धाराओं में मसूद समेत 7 लोगों पर एफआईआर की गई थी। अब तक इस मामले में विधायक को छोड़ सभी 6 आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं। मसूद के खिलाफ भी गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था, जिसके खिलाफ उन्होंने जबलपुर हाईकोर्ट में याचिका लगाई थी। याचिका पर 25 नवम्बर को हुई सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। हाईकोर्ट ने शुक्रवार सुबह अपना फैसला सुनाया है, जिसके अनुसार विधायक मसूद को अग्रिम जमानत दे दी गई है।

Dakhal News

Dakhal News 27 November 2020


bhopal,12 district , state roads , constructed ,cost of Rs 175 crore

भोपाल। लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव ने कहा है कि आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के क्रम में अधोसंरचनाओं को सृदृढ़ बनाने का लक्ष्य मध्यप्रदेश सरकार द्वारा निर्धारित किया गया है। इसी क्रम में लोक निर्माण विभाग द्वारा 175 करोड़ 33 लाख रुपये की लागत से 12 जिला और राज्य मार्गों का निर्माण कराया जाएगा। इसके लिये लोक निर्माण विभाग द्वारा निविदा जारी की जा चुकी हैं।   राजधानी परिक्षेत्र के मुख्य अभियंता ने गुरुवार को जानकारी देते हुए बताया कि विदिशा जिले में हांसुआ से कटसारा मार्ग का निर्माण कार्य लंबाई 5.50 किलोमीटर 617.58 लाख, सीहोर जिले में भड़कुल से कोसमी मार्ग का निर्माण कार्य लंबाई 4 किलोमीटर एवं माथनी मिडिल स्कूल से अन्नपूर्णा मंदिर सतार गांव तक का मार्ग का निर्माण कार्य लंबाई 3 किलोमीटर 687.13 लाख, सुनेड से पाचौर वाया लाचौर मार्ग का निर्माण कार्य लंबाई 5 किलोमीटर खात्याखेड़ी से नेहरू मार्ग निर्माण का कार्य लंबाई 1.40 किलोमीटर एवं खात्याखेड़ी से रिठवाड मार्ग का निर्माण कार्य लंबाई 3.20 किलोमीटर 581.53 लाख रुपये, हरदा जिले में मांदला हिवासा बारंगा खमलाय सालाखेड़ी मसनगांव तक मार्ग निर्माण कार्य लंबाई 15.70 किलोमीटर 888.83 लाख रुपये से किया जाएगा।    हरदा जिले में हंडिया मुख्य मार्ग से शिशु मंदिर हरदा खुर्द पिडगांव बोरवालाबाबा बेटाटप्पर भुन्नास मार्ग तक निर्माण कार्य लंबाई 10 किलोमीटर 884.74 लाख  रुपये, रायसेन जिले में भारकच्छ किशनपुर देहरी कलां धंधला मनकापुर मार्ग निर्माण का कार्य लंबाई 10 किलोमीटर 979.62 लाख, ग्राम पंचायत सेमरा केमखेड़ी (घोड़ा चौक) से कालीटोर (ग्राम पंचायत शाहपुर भरतीपुर) तक मार्ग निर्माण लंबाई 7 किलोमीटर 555.15 लाख, राजगढ़ जिले में केंद्रीय सड़क निधि के अंतर्गत खिलचीपुर से आगरिया ग्राम (राजस्थान सीमा) तक वाया माचलपुर बायपास वाया बाढ़गांव बायपास वाया खेड़ीग्राम तक मार्ग निर्माण लंबाई 53 किलोमीटर 6305.60 लाख रुपये से किया जाएगा।   होशंगाबाद जिले में सुखतवा से चौकीपुरा झलपुरा धार बरेल बोरखेड़ा सोमुखेड़ा सिलवानी लढ़ीमउ बढ़छपरा बसानिया मार्ग एवं शतपुरा पीएमजीएसवाय मार्ग से चौरना जमुनढोह कालाखेर श्रीढाना खाकरापुरा मार्ग निर्माण लंबाई 26 किलोमीटर 1752.57 लाख, विदिशा जिले में बरीघाट धतुरिया करारिया अण्डिया से इकोदिया मार्ग का निर्माण कार्य लंबाई 12 किलोमीटर 764.04 लाख रुपये, जिला रायसेन में जैथारी-सर्रा-चंदपुरा-मेहगवॉखुर्द मार्ग का निर्माण का लंबाई 17.90 किलोमीटर पड़रिया कला से डूंगरिया सियलवाडा केसली चोरपिपलिया मार्ग लंबाई 12.80 किलोमीटर का निर्माण कार्य 2783.89 लाख तथा जिला रायसेन में चुन्हेटिया मोड़ से बख्शी सिमरिया, रोसरारानी मार्ग का निर्माण कार्य लंबाई 8.40 किलोमीटर 733 लाख रुपये से किया जाएगा।

Dakhal News

Dakhal News 26 November 2020


bhopal,revered Kailash Sarang,Ajatshatru,history ,annot be written , Shivraj

भोपाल। श्रद्धेय कैलाश सारंग जी अजातशत्रु थे। राजनीतिक मतभेदों से परे, दलों के ऊपर उनके साथी और मित्र थे। उनको चाहने वाले थे। भोपाल और भोपालियत के वे प्रतीक थे। भोपाल का इतिहास उनके बिना नहीं लिखा जा सकता है। उक्‍त उद्गार राजधानी में मुक्‍तआकाश मंच से भारतीय जनता पार्टी के वरिष्‍ठ नेता स्‍व. सारंगजी की श्रद्धांजलि सभा में मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वक्‍त किए हैं ।    उन्‍होंने कहा कि श्रद्धेय सारंग जी के साथ अनेक बैठकों में मैं साथ था। पूरे प्रदेश को वे बेहद करीब से जानते थे। एक विधानसभा का नाम लो, तो उसकी विशेषताएं वे बता देते थे। एक-एक कार्यकर्ता को नाम से जानने-पहचानने की क्षमता किसी में थी, तो सारंग जी में थी। आप भुलाये नहीं, भूलते हैं।   मुख्‍यमंत्री शिवराज ने कहा, श्रद्धेय कैलाश सारंग जी ने मेरे जैसे अनगिनत कार्यकर्ताओं को बनाया है, उनके जाने से राजनीति के एक युग का अंत हुआ है। उनके बिना अब मध्यप्रदेश सूना लगता है। श्रद्धेय सारंग जी आपके बिना भोपाल सूना है, आपके बिना कविता-शायरी सूनी है, आपके बिना नर्मदा के तट सूने हैं। और आपके बिना हृदय घट भी सूना है। आप सत, चित, आनंद के रूप में हम सबके बीच में हैं। आप अपने पुण्य कर्मों और विचारों से सदैव हमारे दिलों में रहेंगे।   उन्‍होंने कहा कि मनुष्य का शरीर क्षणभंगुर और नाशवान है। शरीर समाप्त होने के बाद भी आत्मा जीवित रहती है, सारंग जी हम सभी की स्मृतियों में तो जीवित रहेंगे ही, साथ ही अपने कर्मों से हमें प्रेरित करते रहेंगे।   उल्‍लेखनीय है कि 14 नवम्बर को मध्यप्रदेश के वरिष्ठ भाजपा नेता और पूर्व राज्यसभा सांसद कैलाश सारंग का मुंबई के एक अस्पताल में निधन हो गया था। वरिष्ठ नेता कैलाश सारंग के निधन के बाद मध्यप्रदेश भाजपा कार्यालय में 19 नवंबर श्रद्धांजलि सभा रखी गई थी, लेकिन गुरुवार राजधानी भोपाल के रवीन्द्र भवन के मुक्‍त आकाशमंच पर जो  स्व. कैलाश सारंग जी की श्रद्धांजलि सभा रखी गई, उसके पीछे का कारण यह बताया गया कि जो भाजपा कार्यालय में उन्‍हें अपने श्रद्धासुमन अर्प‍ित करने नहीं आ सके, वे सभी यहां कोरोना की गाइडलाइन का पालन करते हुए दूरी बनाकर सम्‍म‍िलित हो सकेंगे। संभवत: यही कारण रहा कि सभा में गुरुवार भाजपा के जहां कई वरिष्ठ नेता मौजूद रहे, वहीं अन्‍य राजनीतिक पार्टी के पदाधिकारी एवं शासकीय सेवा व निजि स्‍तर पर कार्य कर रहे तमाम लोग मजूद थे ।   वहीं, गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ स्‍व. नेता कैलाश सारंग भारतीय जनता पार्टी के संस्थापक सदस्य भी रहे हैं। स्‍व. सारंग 1990 से 1996 तक राज्यसभा सदस्य भी रहे थे। इसके अतिरिक्‍त वे पूर्व मंत्री एवं नरेला विधायक विश्वास सारंग के पिता थे ।

Dakhal News

Dakhal News 26 November 2020


bhopal,High court ,verdict may come , bail of absconding ,Congress MLA Arif

भोपाल। राजधानी के इकबाल मैदान में फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ प्रदर्शन कर मुश्किलों में फंसे कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद की जमानत याचिका पर हाईकोई आज फैसला सुना सकता है। हाईकोर्ट ने बुधवार को सुनवाई पूरी कर फैसला सुरक्षित रखा है। कांग्रेस विधायक मसूद धार्मिक भावनाएं भडक़ाने के आरोप में फरार चल रहे है। इससे पहले बुधवार को उम्मीद थी कि मसूद के भोपाल जिला अदालत में सरेंडर कर सकते हैं जिसे लेकर जिला अदालत की सुरक्षा बढ़ाई गई थी। लेकिन बुधवार को मसूद ने सरेंडर नहीं किया। अब कहा जा रहा है कि अगर गुरुवार को हाईकोर्ट से मसूद को जमानत नहीं मिलने पर वो जिला कोर्ट में सरेंडर कर सकते हैं। फिलहाल आज हाईकोर्ट मसूद की जमानत याचिका पर फैसला आएगा।  उल्लेखनीय है कि कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ इकबाल मैदान में प्रदर्शन किया था। इस मामले में मसूद पर आरोप है कि उन्होंने इकबाल मैदान में हजारों की भीड़ इकट्‌ठी की और धार्मिक भावनाएं भडक़ाने वाला भाषण दिया था। उनके साथ मामले में आरोपी बनाए गए 6 लोगों को पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर लिया है। जबकि विधायक मसूद के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी होने के बाद से वे फरार है।

Dakhal News

Dakhal News 26 November 2020


bhopal, Former Chief Minister, Late ,CM Shivraj ,bowed down , death anniversary ,kailash Joshi

भोपाल। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और राजनीति के अजातशत्रु कहे जाने वाले राजनेता स्व कैलाश जोशी की आज मंगलवार को प्रथम पुण्यतिथि है। उनकी पुण्यतिथि पर मप्र के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने उन्हें पुण्य स्मरण कर विनम्र श्रद्धांजलि दी है। उन्होंने ट्वीट के माध्यम से संदेश देते हुए दिवंगत नेता को नमन किया है।   मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्व कैलाश जोशी को प्रथम पुण्यतिथि पर नमन करते हुए कहा अपने प्रखर विचारों एवं विशिष्ट कार्यों से मध्यप्रदेश की जनता के जीवन को सुख, शांति और समृद्धि के नव प्रकाश से आलोकित करने वाले राजनीति के अजातशत्रु, श्रद्धेय स्व. कैलाश जोशी जी की पुण्यतिथि पर विनम्र श्रद्धांजलि!   एक अन्य ट्वीट कर उन्होंने कहा कि आदरणीय जोशी जी प्रदेश की प्रगति एवं जनता के कल्याण के लिए दिन-रात चिंतन व मंथन करते रहते थे। उनके समान जनसेवक विरले ही होते हैं। गरीबों, वंचितों की सेवा और प्रदेश की उन्नति ही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी। राजनीति के संत के चरणों में कोटिश: प्रणाम!   भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने अपने ट्वीट में कहा राजनीति के संत, पूर्व मुख्यमंत्री एवम् भाजपा के आधार स्तम्भ श्रद्धेय श्री कैलाश जोशी जी की प्रथम पुण्यतिथि पर उन्हें भावपूर्ण नमन।   गौरतलब है कि पूर्व मुख्यमंत्री कैलाश जोशी का 24 नवम्बर 2019 को 91 वर्ष की उम्र में निधन हो गया था। वे लंबे समय से बीमार थे, उन्होंने भोपाल के निजी अस्पताल में अंतिम सांस ली थी। कैलाश जोशी के निधन पर प्रदेश में एक दिन का राजकीय शोक घोषित किया गया था।

Dakhal News

Dakhal News 24 November 2020


bhopal,Farmers encouraged ,make biogas, ethanol from starch,Agriculture Minister

भोपाल। किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री कमल पटेल ने कहा है कि पराली से बायोगैस और एथेनॉल बनाने के लिए किसानों को प्रोत्साहित किया जायेगा। एथेनॉल और बायो- गैस सरकार खरीदेगी। इससे किसानों को सीधे लाभ होगा और पराली से होने वाले नुकसान से भी बचा जा सकेगा।   जनसंपर्क अधिकारी अलूने ने मंगलवार को जानकारी देते हुए बताया कि कृषि मंत्री पटेल की गत दिनों दिल्ली प्रवास के दौरान केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान से हुई मुलाकात में किसानों को लाभान्वित किए जाने के प्रयासों के संबंध में विस्तार से चर्चा हुई। उन्हें पराली से किसानों और पर्यावरण को होने वालो नुकसान के संबंध में अवगत कराया गया। केंद्रीय मंत्री प्रधान ने बताया कि केंद्र सरकार पराली से बायोगैस और एथेनॉल बनाने की परियोजना को अमलीजामा पहनाने जा रही है।   उन्‍होंने बताया कि प्रदेश सरकार केन्द्र सरकार के मार्गदर्शन में किसानों को लाभान्वित करने में कोई कोर कसर बाकी नहीं रखेगी। प्रदेश के किसानों को बायोगैस और एथेनॉल बनाने के लिए न केवल प्रोत्साहित किया जाएगा अपितु इसके लिए आवश्यक सरकारी मदद भी मुहैया कराई जाएगी। इससे पर्यावरण प्रदूषण, जनधन और पशुधन हानि को रोका जा सकेगा। किसानों द्वारा बनाई जाने वाली बॉयोगैस और एथेनॉल को सरकार खरीदेगी। इसका इस्तेमाल गैस से संचालित अन्य उद्यमों में किया जाएगा।

Dakhal News

Dakhal News 24 November 2020


Sehore, Young man ,shot at BJP leader, get fame, narrowly escapes

सीहोर। सीहोर जिले के बुधनी नगर में भाजपा के वरिष्ठ नेता और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के करीबी गुरुप्रसाद शर्मा को एक युवक ने राजनीति में प्रसिद्धि पाने के लिए मंगलवार को सुबह एयरगन से गोली मार दी। गनीमत रही कि उन्होंने गोली चलने से पहले ही गन को ऊपर कर दिया, जिससे वे बाल-बाल बच गए, लेकिन गन का वट उनके सिर पर लगा, जिससे उन्हें चोटें आई हैं। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई और युवक को गिरफ्तार कर लिया है। फिलहाल, उससे पूछताछ की जा रही है।    भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व निगम अध्यक्ष गुरु प्रसाद शर्मा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के करीबी माने जाते हैं। मंगलवार सुबह 7.00 बजे के करीब एक युवक उनसे मिलने आया था। उन्होंने जब उस युवक से मिलने का कारण पूछा तो वह कुछ नहीं बोला। इसके बाद वे अपने घर से कुर्सी उठाकर बाहर लाए और उस पर बैठने लगे, तभी युवक ने उन पर एयरगन तान दी और फायर कर दिया, लेकिन फायर होने से पहले ही गुरु प्रसाद शर्मा ने उसकी बंदूक की नाल को ऊपर कर दिया, जिससे उनकी जान तो बच गई, लेकिन एयरगन का वट उनके सिर पर लगने से उन्हें चोटें आई हैं। घटना के तत्काल बाद मौके पर मौजूद लोगों ने युवक को दबोच लिया और पुलिस के हवाले कर दिया। घटना की सूचना मिलते ही एसपी एसएस चौहान सहित प्रशासनिक व पुलिस अमला मौके पर पहुंचा। एसपी चौहान ने बताया कि शर्मा ठीक हैं। आरोपित युवक को गिरफ्तार कर लिया है और उससे पूछताछ की जा रही है।   उन्होंने बताया कि युवक ने अपना नाम कौशिक मेहरा निवासी भोपाल बताया है। वह सक्रिय राजनीति में प्रसिद्धि पाना चाहता था, इसलिए उसने यह कदम उठाया।

Dakhal News

Dakhal News 24 November 2020


bhopal, Chief Minister ,sees various, under-construction works

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश के विभिन्न नगरों और ग्रामों का भ्रमण कर जनकल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन की स्थिति देखेंगे। उन्होंने इसकी शुरुआत करते हुए सोमवार को भोपाल के विभिन्न क्षेत्र में जाकर जनता को मिल रही सुविधाओं और निर्माणाधीन कार्यों का जायजा लिया। साथ ही इन कार्यों का अवलोकन करने के बाद संबंधित अधिकारियों को समय-सीमा में इन कार्यों की पूर्णता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि आम जनता को उन्हें मिलने वाली सुविधाओं से वंचित करने वालों के विरुद्ध दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी। उन्‍होंने कलेक्ट्रेट भोपाल में लोक सेवा केन्द्र, राजधानी के नए सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट और कोकता क्षेत्र में प्रधानमंत्री आवास योजना के कार्यों का भी निरीक्षण किया।   लोक सेवा केन्द्र का निरीक्षण मुख्यमंत्री ने भोपाल नगर के निरीक्षण में सबसे पहले कलेक्ट्रेट स्थित लोक सेवा केन्द्र पहुंचकर आमजन से भेंट की। उन्‍होंने आवेदकों से भी चर्चा की, जिसमें जानकारी प्राप्त हुई कि उनके कार्य एक दिन में हो रहे हैं, लेकिन दस्तावेज की प्रति के लिए पांच रुपये प्रति दस्तावेज शुल्क भी देना होता है। उन्‍होंने कहा कि लोक सेवा केन्द्रों पर लगने वाले इस शुल्क में कमी के लिए नई नीति बनाई जाएगी। लोक सेवा केन्द्रों का उद्देश्य आमजन की समस्याओं का त्वरित निराकरण करने के साथ ही आमजन को इन कार्यों पर लगने वाले शुल्क के आर्थिक बोझ से भी बचाना है।    मुख्यमंत्री ने कलेक्टर भोपाल अविनाश लवानिया को केन्द्र में शुल्क की व्यवस्था को परिवर्तित कर जनता को राहत प्रदान करने के निर्देश दिए। इस दौरान मुख्यमंत्री चौहान ने आवेदकों से उनके कार्य के निराकरण के संबंध में पूछा। उन्होंने काउंटर क्रमांक-1 पर बैठे सहायक शिवम् और क्रमांक-2 पर ड्यूटी पर तैनात सुमाधुरी से भी चर्चा कर आम जनता को उपलब्ध करवाई जा रही सुविधाओं की जानकारी प्राप्त की। मुख्यमंत्री चौहान ने प्रत्येक काउंटर पर बैठे कर्मचारियों द्वारा मास्क के उपयोग के लिए उनकी सराहना की।   सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट कोहेफिजा का निरीक्षण मुख्यमंत्री ने भोजताल के पास कोहेफिजा अहमदाबाद क्षेत्र में नवनिर्मित सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट का निरीक्षण किया। उन्होंने प्लांट की निर्माण अवधि में विलंब की जानकारी प्राप्त की, जिसमें यह तथ्य प्रकाश में आया कि इसका निर्माण वर्ष 2019 में पूर्ण होना था। मुख्यमंत्री चौहान ने प्लांट की शुरुआत से संबंधित प्रक्रियाओं को पूर्ण कर लोकार्पण की तिथि तय करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जलस्रोतों की शुद्धि के लिए इस तरह के प्लांट अपनी पूरी क्षमता से कार्य करें और इनका लाभ नागरिकों को प्राप्त हो, इस दिशा में अधिकारी गंभीर रहें। मुख्यमंत्री चौहान ने अन्य स्थानों पर निर्मित हो रहे सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट के अधूरे कार्यों को भी शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने भोपाल शहर के इस तरह के तीन अन्य निर्माणाधीन प्लांट प्राथमिकता पूर्वक पूर्ण कर लोकार्पित कराने के निर्देश दिए।   प्रधानमंत्री आवास योजना के आवास गृह, पात्र हितग्राहियों को सौंपे जाएं मुख्यमंत्री चौहान ने रायसेन रोड स्थित कोकता क्षेत्र में नगर-निगम भोपाल द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत निर्मित किए जा रहे आवास गृहों का भी निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि झुग्गी वासियों को भी स्वच्छ आवास में रहकर मुस्कराने का अधिकार है। आवास हर आदमी की जरूरत है। प्रदेश में सभी गरीबों को अपनी छत देने का लक्ष्य पूर्ण किया जाना है। पूर्व सरकार द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के क्रियान्वयन के प्रति गंभीर रूख न अपनाने से अनेक स्थानों पर आवासों के निर्माण में देरी हुई है। इस कमी को दूर करते हुए निर्माणाधीन आवास तेजी से पूर्ण किए जाएं।    उन्‍होंने बताया कि कोकता स्थित आवास तीन श्रेणियों में निर्मित किए जा रहे हैं। कुल 2880 आवास निर्मित हो रहे हैं जिनमें 2016 ईडब्ल्यूएस आवासगृहों के अलावा एलआईजी और एमआईजी श्रेणी के 432-432 आवास शामिल हैं। इनके निर्माण के लिए केन्द्र सरकार द्वारा डेढ़ लाख और राज्य सरकार द्वारा डेढ़ लाख की राशि देने का प्रावधान है। हितग्राहियों को यह आवास 2 लाख रुपये में प्राप्त होंगे। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि निम्न मध्यम वर्गीय परिवारों को भी आवास सुविधा उपलब्ध कराने पर भी ध्यान दिया जाएगा।   इसके अलावा मुख्यमंत्री चौहान ने कोरोना से बचाव के लिए जनता को जागरूक करने के लिए भोपाल की अब्बास नगर बस्ती जाकर बच्चों और बड़ों को मास्क वितरित किए। मुख्यमंत्री चौहान ने फेस मास्क का उपयोग कर महामारी से बचाव की समझाइश भी दी। मुख्यमंत्री के निरीक्षण के दौरान कलेक्टर अविनाश लवानिया, सचिव मुख्यमंत्री एम. सेल्वेंद्रन और संचालक जनसंपर्क आशुतोष प्रताप सिंह और संबंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Dakhal News

Dakhal News 23 November 2020


bhopal,Vehicles ,Kamal Nath

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निरीक्षण के दौरान सोमवार को सुबह भोपाल के वीआईपी रोड पर मीडियाकर्मियों के वाहनों से पूर्व मुख्यमंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के काफिले के वाहन टकरा गए। बताया जा रहा है कि इस हादसे में कमलनाथ के काफिले के कुछ वाहन क्षतिग्रस्त हो गए हैं। सूचना मिलने पर पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंचे और मामले की जानकारी ली। इस हादसे में किसी को चोट नहीं आई है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है।   जानकारी के मुताबिक, भोपाल के कोहेफिजा के वीआईपी रोड स्थित कर्बला पम्प हाउस के सामने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह सोमवार सुबह विकास कार्यों का निरीक्षण कर रहे थे। उसी दौरान उनकी सुरक्षा में तैनात कर्मचारियों और कुछ मीडिया कर्मियों के वाहन सडक़ पर खड़े थे। तभी पीछे से पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का काफिला एयरपोर्ट की तरफ जाने के लिए वहां से निकला। बताया जा रहा है कि कमलनाथ के काफिले की गाडिय़ां अचानक अनियंत्रित हो गई और सडक़ पर खड़े मीडियाकर्मियों के वाहनों से उनके काफिले के वाहन टकरा गई। बताया जा रहा है कि इस हादसे में कमलनाथ के काफिले के आधा दर्जन वाहन क्षतिग्रस्त हो गए। इस हादसे में कुछ मीडिया कर्मियों के वाहन भी क्षतिग्रस्त हुए हैं। घटना की जानकारी लगने का बाद डीआइजी इरशाद वली समेत अधिकारी मौके पर पहुंच गए और मामले की जानकारी ली। पुलिस फिलहाल मामले की जांच कर रही है।    इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का वाहन आगे निकल चुका था, जबकि शिवराज सिंह चौहान जानकारी लगते ही मौके पर पहुंचे और कुछ देर तक कार से उतरकर रुके। फिर वहां से आगे के लिए रवाना हो गए। गनीमत रही कि इसमें किसी को चोट नहीं आई। मामले में एडीजी डीसी सागर का कहना है कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के काफिले के वाहन मीडियाकर्मियों के वाहनों टकराए हैं। मंत्री के सुरक्षा में तैनात वाहनों से कोई हादसा नहीं हुआ है।

Dakhal News

Dakhal News 23 November 2020


khargon, Former minister , priests and haircuts ,affected by lockdown financed

खरगोन। पूर्व कृषि मंत्री और कांग्रेस विधायक सचिन यादव ने अपने निर्वाचन क्षेत्र कसरावद विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न मंदिरों के ब्राम्हण पुजारियों को शुक्रवार को अपने गृहगांव बोरावां में 2100-2100 रूपये की धनराशि के चेक प्रदान किया। कोविड 19 महामारी और लॉकडाउन के चलते मंदिरों के ब्राम्हण पुजारियों के सामने गहराए आर्थिक संकट को देखते हुए पूर्व मंत्री ने विधायक स्वेच्छा अनुदान से 90 पुजारियों को 2100-2100 रुपये की धनराशि के चेक प्रदान किये। विभिन्न गॉवों और कसरावद कस्बे से आये इन पुजारियों ने सचिन यादव से चेक ग्रहण करने के बाद उन्हें अपना शुभाषीर्वाद प्रदान किया।   ग्राम रायपुरा के श्रीराम मंदिर के पुजारी पंडित महेश शर्मा ने इन ब्राम्हण पंडितों को विधायक सचिन यादव द्वारा की गई सहायता पर उनके प्रति आभार व्यक्त किया है। उन्होंने बताया कि कोविड महामारी के बाद लॉकडाउन से जूझ रहे इन ब्राम्हण पंडितों को आज विधायक यादव द्वारा दी गई सहायता अमूल्य है। ग्राम सरवर देवला के शिव मंदिर और नर्मदा मंदिर के पुजारी पंडित विजय शर्मा ने बताया कि विधायक सचिन यादव ने आज सुबह अपने गृह निवास बोरावां में दुर्गा मंदिर परिसर में 90 ब्राम्हण पुजारियों को एक लाख 89 हजार रुपये की सहायता राशि प्रदान कर संकट के समय में मदद की है। सभी पुजारियों और पंडितों की ओर से हम उनके प्रति आभार व्यक्त करते हैं ।   सेन समाज के 262 केश शिल्पकारों को दी सहायता राशिइसके अलावा विधायक सचिन यादव ने कोविड महामारी के दौरान लॉकडाउन के समय आर्थिक संकट से जूझ रहे अपने विधानसभा क्षेत्र कसरावद के सेन समाज के 262 केश शिल्पकारों को भी 3 लाख 93 हजार रूपये की सहायता प्रदान की थी। उन्होंने इन सभी को विधायक स्वेच्छा अनुदान की राशि में से प्रत्येक शिल्पकार को 1500-1500 रुपये की धनराशि के चेक प्रदान किये थे। सेन समाज के प्रतिनिधियों ने भी सचिन यादव द्वारा संकट के समय की गई सहायता पर उनके प्रति हार्दिक रूप से आभार व्यक्त किया गया। इस मौके पर सचिन यादव ने कहा कि गरीब धोबी समाज के लोगों को भी विधायक स्वेच्छा अनुदान के माध्यम से सहायता प्रदान की जाएगी। उन्होनें कहा कि गरीबों की संकट के समय हरसंभव सहायता के प्रयास किये जाते रहेंगें। उन्हें हरसंभव सहायता भी प्रदान की जाती रहेगी ।

Dakhal News

Dakhal News 20 November 2020


khargon, Former minister , priests and haircuts ,affected by lockdown financed

खरगोन। पूर्व कृषि मंत्री और कांग्रेस विधायक सचिन यादव ने अपने निर्वाचन क्षेत्र कसरावद विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न मंदिरों के ब्राम्हण पुजारियों को शुक्रवार को अपने गृहगांव बोरावां में 2100-2100 रूपये की धनराशि के चेक प्रदान किया। कोविड 19 महामारी और लॉकडाउन के चलते मंदिरों के ब्राम्हण पुजारियों के सामने गहराए आर्थिक संकट को देखते हुए पूर्व मंत्री ने विधायक स्वेच्छा अनुदान से 90 पुजारियों को 2100-2100 रुपये की धनराशि के चेक प्रदान किये। विभिन्न गॉवों और कसरावद कस्बे से आये इन पुजारियों ने सचिन यादव से चेक ग्रहण करने के बाद उन्हें अपना शुभाषीर्वाद प्रदान किया।   ग्राम रायपुरा के श्रीराम मंदिर के पुजारी पंडित महेश शर्मा ने इन ब्राम्हण पंडितों को विधायक सचिन यादव द्वारा की गई सहायता पर उनके प्रति आभार व्यक्त किया है। उन्होंने बताया कि कोविड महामारी के बाद लॉकडाउन से जूझ रहे इन ब्राम्हण पंडितों को आज विधायक यादव द्वारा दी गई सहायता अमूल्य है। ग्राम सरवर देवला के शिव मंदिर और नर्मदा मंदिर के पुजारी पंडित विजय शर्मा ने बताया कि विधायक सचिन यादव ने आज सुबह अपने गृह निवास बोरावां में दुर्गा मंदिर परिसर में 90 ब्राम्हण पुजारियों को एक लाख 89 हजार रुपये की सहायता राशि प्रदान कर संकट के समय में मदद की है। सभी पुजारियों और पंडितों की ओर से हम उनके प्रति आभार व्यक्त करते हैं ।   सेन समाज के 262 केश शिल्पकारों को दी सहायता राशिइसके अलावा विधायक सचिन यादव ने कोविड महामारी के दौरान लॉकडाउन के समय आर्थिक संकट से जूझ रहे अपने विधानसभा क्षेत्र कसरावद के सेन समाज के 262 केश शिल्पकारों को भी 3 लाख 93 हजार रूपये की सहायता प्रदान की थी। उन्होंने इन सभी को विधायक स्वेच्छा अनुदान की राशि में से प्रत्येक शिल्पकार को 1500-1500 रुपये की धनराशि के चेक प्रदान किये थे। सेन समाज के प्रतिनिधियों ने भी सचिन यादव द्वारा संकट के समय की गई सहायता पर उनके प्रति हार्दिक रूप से आभार व्यक्त किया गया। इस मौके पर सचिन यादव ने कहा कि गरीब धोबी समाज के लोगों को भी विधायक स्वेच्छा अनुदान के माध्यम से सहायता प्रदान की जाएगी। उन्होनें कहा कि गरीबों की संकट के समय हरसंभव सहायता के प्रयास किये जाते रहेंगें। उन्हें हरसंभव सहायता भी प्रदान की जाती रहेगी ।

Dakhal News

Dakhal News 20 November 2020


Bhopal, MLA Arif Masood, released video, said - I am not absconding

भोपाल। इकबाल मैदान पर फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ प्रदर्शन कर धार्मिक भावनाएं भड़काने के मामले के आरोपित कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद की अग्रिम जमानत याचिका पर अब हाईकोर्ट 25 नवम्बर को सुनवाई करेगा। इधर, मसूद का एक वीडियो शुक्रवार को जारी हुआ है, जिसमें वो कह रहे हैं कि मैं फरार नहीं हूं। मेरे खिलाफ झूठा मामला दर्ज किया है।    जारी किए गए वीडियो में विधायक आरिफ मसूद कहते हैं कि मैंने हाई कोर्ट में अपील की है। अगर वहां से जमानत नहीं मिलती है, तो मैं कोर्ट में सरेंडर कर दूंगा। वीडियो में मसूद ने कहा कि हिन्दू बहनों के घर-घर राखियां पहुंचाई। कई वर्षों से दीपावली पर्व पर साड़ियां भाई के रूप में बहनों को पहुंचाने का काम किया है। सरकार इनकी साफ सुथरी छवि को देखते हुए उसे धूमिल करने के उद्देश्य से इस प्रकार के झूठे प्रकरण लगा रही है। उन्हें बदनाम करने की कोशिश कर रही है। हमें माननीय न्यायालय पर पूरा भरोसा है हमें न्यायालय में इंसाफ मिलेगा।   गौरतलब है कि तलैया पुलिस ने इस मामले में पहले धारा 144 के उल्लंघन का केस दर्ज किया था, लेकिन बाद में धार्मिक भावनाएं भड़काने की धाराओं में मसूद समेत 7 लोगों पर एफआईआर की गई। अब तक इस मामले में विधायक को छोड़ सभी 6 आरोपी सलाखों के पीछे पहुंच चुके हैं। विधायक के करीबी अब्दुल नफीस ने बताया कि हाई कोर्ट अग्रिम जमानत पर 25 को फैसला करेगा।

Dakhal News

Dakhal News 20 November 2020


indore,Medha Patkar ,appeals ,make farmer movement, successful in Delhi

इंदौर। देशभर के 500 से ज्यादा किसान संगठनों के व्यापक समन्वय आल इंडिया किसान संघर्ष समन्वय समिति की वर्किंग कमेटी सदस्य नर्मदा बचाओ आंदोलन की नेत्री मेधा पाटकर ने दिल्ली में आगामी 26 नवम्बर को देशव्यापी मजदूर-किसान हड़ताल और 26-27 नवम्बर किसान आंदोलन को सफल बनाने की अपील की है। उन्होंने दावा किया है कि देश के कोने-कोने से 26 नवम्बर को करीब 10 लाख से ज्यादा किसान दिल्ली पहुंचेंगे तथा डेरा डालो आंदोलन करेंगे। किसानों के इस आंदोलन का मजदूर संगठनों ने भी समर्थन किया है तथा 26 नवम्बर को होने वाली मजदूर हड़ताल का किसान संगठनों ने समर्थन किया है।   मेधा पाटकर ने शुक्रवार को इंदौर में आयोजित प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में कोरोना संक्रमण की आपदा को देशी विदेशी कारपोरेट के लिए मुनाफा कमाने के अवसर में तब्दील कर दिया है। देश के लाखों श्रमिकों के मूलभूत अधिकारों में कटौती करते हुये 44 से ज्यादा श्रम कानूनों को निरस्त कर पूंजीपतियों और उद्योग मालिकों के अनुरुप बना दिया है, वहीं कृषि सुधार के नाम पर तीन किसान विरोधी कानून संसद में अलोकतांत्रिक तरीके से पास किये गये हैं, जिसके तहत पहले से ही बड़ी कम्पनियों के मुनाफे के जाल में फंसा किसान अब पूरी तरह इन कम्पनियों की गिरफ्त में आ जायेगा। उन्होंने किसानों से दिल्ली चलो की अपील की है।   पत्रकार वार्ता में किसान संघर्ष समिति मालवा निमाड़ के संयोजक रामस्वरूप मंत्री ने कहा कि पहली बार देश के किसान और मजदूर एकजुट होकर नरेंद्र मोदी सरकार का विरोध कर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि इस सरकार ने वर्षों के संघर्ष के बाद हासिल किए गए श्रम कानूनों और श्रम अधिकारों को जमींदोज कर श्रमिकों को बंधुआ बनाने की साजिश रची है। वहीं किसानी को बर्बाद करने का संकल्प लिया है। इसी के तहत पूरे देश में किसानों में आक्रोश है। 26 व 27 तारीख को घेरा डालो डेरा डालो के तहत देश के कोने-कोने से लाखों किसान दिल्ली पहुंचेंगे। महाराष्ट्र और निमाड़ से जाने वाले किसानों के जत्थे इंदौर होकर गुजरेंगे। इंदौर में सभी किसान संगठन मिलकर दिल्ली जाने वालों का स्वागत करेंगे। 24 नवम्बर को सुबह 8.00 बजे अंबेडकर प्रतिमा गीता भवन चौराहे पर स्वागत किया जाएगा।   अखिल भारतीय किसान सभा इंदौर इकाई के सचिव अरुण चौहान ने कहा कि सभी केंद्रीय ट्रेड यूनियन  मिलकर 26 तारीख को हड़ताल करेगी तथा इंदौर के संभाग आयुक्त कार्यालय पर प्रदर्शन होगा। साथ ही 27 को किसान और मजदूर एकजुटता के साथ दिल्ली में तो भागीदारी करेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 20 November 2020


bhopal, State BJP leaders ,expressed grief over ,demise of CM Shivraj,father-in-law

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के ससुर और साधना सिंह के पिता घनश्यामदास मसानी (88 वर्ष) का बुधवार देर शाम निधन हो गया। वे पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे और भोपाल के एक निजी अस्पताल में उनका ईलाज चल रहा था। जहां बुधवार देर शाम उन्होंने अंतिम सांस ली। उनके निधन पर मप्र भाजपा नेताओं ने गहरा दुख जताते हुए परिवार के प्रति शोक संवेदना व्यक्त की है।   भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने दिवंगत आत्मा की शांति की प्रार्थना करते हुए शोकाकुल परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने ट्वीट कर कहा ‘मुख्यमंत्री श्री@ChouhanShivraj के ससुर एवं भाभी श्रीमती @SadhnaShivraj के पूज्य पिताजी श्री घनश्यामदास मसानी जी के निधन का दु:खद समाचार मिला। ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दे एवं शोक संतप्त परिजनों को इस वज्रपात को सहने की शक्ति दे।भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट कर अपने शोक संदेश में कहा ‘आदरणीय भाभी @SadhnaShivraj जी के पूज्य पिताजी एवं श्री @ChouhanShivraj जी के ससुर जी श्री घनश्यामदास जी मसानी जी का देवलोकगमन हो गया है। प्रभु स्वजनों को इस दु:ख को सहन करने की शक्ति करें। श्रद्धांजलि   प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने घनश्याम मसानी के निधन पर दुख जताते हुए कहा ‘मुख्यमंत्री श्री @ChouhanShivraj जी के ससुर श्री घनश्यामदास मसानी जी के निधन का दु:खद समाचार मिला। ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दें एवं शोक संतप्त परिजनों को यह दुख सहन करने की शक्ति प्रदान करें।

Dakhal News

Dakhal News 19 November 2020


bhopal, Before state elections, BJP

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी मध्य प्रदेश द्वारा आज गुरुवार को प्रदेश भाजपा कार्यालय दीनदयाल परिसर भोपाल में प्रदेश स्तरीय प्रशिक्षण वर्ग का आयोजन किया जा रहा है। इस प्रशिक्षण वर्ग में वह कार्यकर्ता भाग लेंगे जो मंडल स्तर पर होने वाले प्रशिक्षण वर्ग में विषय का प्रतिपादन करेंगे।   भाजपा के प्रदेश स्तरीय प्रशिक्षण शिविर गुरुवार सुबह 11 बजे से शुरू हुआ, जिसमें 500 पदाधिकारियों को ट्रेनिंग दी जाएगी। प्रशिक्षण कार्यक्रम निकाय चुनाव के लिहाज से महत्वपूर्ण माना जा रहा है। प्रशिक्षण शिविर में ज्योतिरादित्य सिंधिया भी शामिल हो सकते हैं। वहीं मंडल स्तर का प्रशिक्षण कार्यक्रम 25 नवम्बर से 15 दिसम्बर तक आयोजित किया जाएगा।

Dakhal News

Dakhal News 19 November 2020


bhopal,State Women

भोपाल।  मध्य प्रदेश राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष और कांग्रेस नेत्री शोभा ओझा कोरोना संक्रमित पाई गई है। कोरोना के लक्षण दिखने पर उन्होंने अपना टेस्ट करवाया था, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्होंने ट्वीट कर खुद के कोराना संक्रमित होने की जानकारी दी है। राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष श्रीमती शोभा ओझा ने एक ट्वीट के माध्यम से यह जानकारी दी है कि कोविड-19 के हल्के लक्षणों के चलते उन्होंने अपना कोविड टेस्ट करवाया, जिसमें उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, लिहाजा चिकित्सकिय सलाह के अनुसार वे घर पर ही आइसोलेशन में स्वास्थ्य लाभ ले रही हैं। उन्होंने अपने ट्वीट में यह भी अपील की है कि पिछले कुछ दिनों में जो भी बंधु उनके संपर्क में आए हैं, कृपया वे भी अपनी जाँच अवश्य कराएँ। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा ‘पिछले दो दिनों से मुझे ष्टह्रङ्कढ्ढष्ठ-19 के हल्के लक्षण महसूस हो रहे थे। मैंने कोविड टेस्ट करवाया, रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मैं घर पर ही आइसोलेशन में स्वास्थ्य लाभ ले रही हूँ। मेरा अनुरोध है कि पिछले दिनों जो भी मेरे संपर्क में आए हैं, अपनी जाँच अवश्य कराएँ, शीघ्र स्वस्थ होकर फिर मिलेंगे। गौरतलब है कि दो दिन पहले ही पूर्व सीएम कमलनाथ के सांसद पुत्र नकुलनाथ भी कोरोना संक्रमित पाए गए थे। पूर्व मंत्री जयवर्धन सिंह और कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह भी कोरोना पॉजिटिव होने के बाद इन दिनों अपना ईलाज करवा रहे हैं।

Dakhal News

Dakhal News 18 November 2020


bhopal, Chief Minister, Shivraj wishes birthday, former Chief Minister ,Kamal Nath

भोपाल। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस कमलनाथ आज अपना 74वां जन्मदिन मना रहे हैं। उनका जन्म आज के ही दिन 18 नवम्बर 1946 को कानपुर में हुआ था। जन्मदिन के अवसर पर उन्हें राजनेताओं द्वारा बधाई जा रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी उन्हें जन्मदिन की शुभकामनाएँ दी हैं।   मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट के माध्यम से कहा है कि - 'मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी को जन्मदिन पर हार्दिक शुभकामनाएं।'

Dakhal News

Dakhal News 18 November 2020


bhopal, Congress MLA ,Arif Masood, has more difficulties, arrest warrant issued

भोपाल। राजधानी के इकबाल मैदान पर प्रदर्शन के मामले में भोपाल मध्य से कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद की मुश्किलें बढ़ती जा रही है। बिना अनुमति हजारों की भीड़ जमा कर धार्मिक भावनाएं भडक़ाने के मामले में उनके खिलाफ एडीजे कोर्ट ने गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया है। दो दिसंबर को आरिफ मसूद को कोर्ट में पेश होना होगा, ऐसा नहीं होने पर उन्हें फरार घोषित किया जाएगा।   राजधानी में सांसदों और विधायकों के मामले की सुनवाई कर रही विशेष अदालत के न्यायाधीश प्रवेन्द्र कुमार सिंह की अदालत में तलैया पुलिस की ओर से आरोपित आरिफ मसूद के खिलाफ धारा-82-83 फरारी की उद्घोषणा के संबंध में आवेदन पेश किया गया था। जिसमें कहा था कि आरिफ मसूद की तलाश की जा रही है, लेकिन वे लापता हैं। मामले में न्यायाधीश प्रवेन्द्र कुमार सिंह ने सुनवाई के बाद आरिफ मसूद के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी करने के आदेश दिए।    गौरतलब है कि इस मामले में आरोपित बनाए गए छह लोगों की गिरफ्तारी पहले ही हो चुकी है। कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने अदालत में अग्रिम जमानत की अपील की थी जिसे कोर्ट ने नामंजूर कर दिया था, जिसके बाद से आरिफ मसूद फरार चल रहे हैं।

Dakhal News

Dakhal News 18 November 2020


bhopal,BJP leaders ,including CM Shivraj,salute , death anniversary ,Lala Lajpat Rai

भोपाल। देश के महान स्वतंत्रता सेनानियों में से एक लाला लाजपत राय की आज मंगलवार को पुण्यतिथि है। भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में लाला लाजपतराय एक महान राष्ट्रवादी नेता थे। उन्हें ‘पंजाब केसरी’ और ‘पंजाब का सिंह’ के नाम से जाना जाता है। ब्रिटिश शासन के खिलाफ लडऩे वाले लाला लाजपत राय आज ही के दिन 1928 में निधन हो गया था। उनकी  पुण्यतिथि पर मप्र के सीएम शिवराज सिंह चौहान समेत भाजपा नेताओं ने नमन किया है।   सीएम शिवराज ने लाला लाजपत राय की पुण्यतिथि पर ट्वीट कर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए कहा- ‘अतीत को देखते रहना व्यर्थ है, जब तक उस अतीत पर गर्व करने योग्य भविष्य के निर्माण के लिए कार्य न किया जाये-लाजपत राय। अपने प्रखर विचारों और क्रांतिकारी प्रयासों से ब्रिटिश सरकार की चूलें हिला देने वाले, पंजाब केसरी, श्रद्धेय लाला लाजपत राय जी की पुण्यतिथि पर कोटि-कोटि नमन!   भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने अपने संदेश में कहा कि - ‘पंजाब केसरी लाला लाजपतराय जी की पुण्यतिथि पर उन्हें भावपूर्ण प्रणाम।   भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने लाला लाजपत राय को नमन करते हुए ट्वीट कर कहा ‘'पंजाब केशरी' लाला लाजपत राय भारत के उन अमर स्वतंत्रता सेनानियों में से एक थे जिन्होंने मातृभूमि को पराधीनता की बेडिय़ों से आज़ाद करने के लिए हर संभव प्रयास किए। लालाजी ने देशभक्ति में वे आदर्श स्थापित किए जिसके लिए संपूर्ण देश उनका सदैव ऋणी रहेगा।   गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने अपने ट्वीट में लिखा ‘मेरे शरीर पर पड़ी एक- एक लाठी ब्रिटिश सरकार के ताबूत में एक - एक कील का काम करेगी। " पंजाब केसरी के नाम से प्रसिद्ध भारत के महान स्वतंत्रता सेनानी, राष्ट्र गौरव लाला_लाजपत_राय जी की पुण्यतिथि पर सादर नमन और विनम्र श्रद्धांजलि।

Dakhal News

Dakhal News 17 November 2020


indore,After Computer Baba, administration tightened ,supporters, bulldozers

इंदौर। इंदौर शहर में अतिक्रमण के खिलाफ प्रशासन की कार्रवाई जारी है। कंप्यूटर बाबा के बाद अब उनके समर्थकों पर प्रशासन की नजर जम गई है। इसी क्रम में मंगलवार को कम्प्यूटर बाबा के समर्थक रमेश तोमर के अवैध निर्माण पर कार्रवाई की जा रही है। निगम का अमला रमेश तोमर के अवैध निर्माण को गिराने पहुंचा है।   डीआईजी हरिनारायणाचारी मिश्र के अनुसार सबसे पहली कार्रवाई आजाद नगर में गुंडे रमेश तोमर के घर से शुरू हुई। यहां बाबा के हिस्ट्रीशीटर सहयोगी का अवैध निर्माण तोड़ा जा रहा है। सुबह बड़ी संख्या में निगम की टीम पुलिस के साथ 5 जेसीबी लेकर रमेश के आजाद नगर थाना क्षेत्र के इदरीश नगर में पहुंची और कार्रवाई को अंजाम दिया। निगम की टीम के साथ जिला प्रशासन के अधिकारी भी मौके पर मौजूद हैं। रमेश तोमर कंप्यूटर बाबा का करीबी माना जाता है। कम्प्यूटर बाबा की तरह उनका करीबी रमेश तोमर भी सरकारी जमीन पर अतिक्रमण कर बैठा था। उसने पार्क की जमीन पर कब्जा कर तीन अवैध मोबाइल टॉवर खड़े करवा लिए थे। इसके अलावा अलग-अलग जगहों पर छोटे-बड़े पांच मकान भी बना रखे थे। इसके अलावा वहां पर एक लग्जरी इनोवा गाड़ी भी बरामद हुई। छानबीन करने पर यह गाड़ी हिस्ट्रीशीटर तोमर के नाम से रजिस्टर्ड है। जिसका उपयोग कम्प्यूटर बाबा द्वारा किया जाता था।   कम्प्यूटर बाबा का करीबी है रमेश रमेश तोमर कम्प्यूटर बाबा का खास करीबी है। उनकी जमानत अर्जी में वह गारंटर भी था। रमेश तोमर पर कई आपराधिक मामले दर्ज है, जिनमें मारपीट, गाली गलौज, बलवा करना, जान से मारने की धमकी देना, तोड़-फोड़ करना, बिजली चोरी, शासकीय कर्मचारी पर हमला, धोखाधड़ी, फर्जी दस्तावेज तैयार करना, अवैध कब्जा करना, अवैध शराब रखने के मामले दर्ज हैं।

Dakhal News

Dakhal News 17 November 2020


guna, scindia

गुना। दिग्विजय सिंह के गढ़ में पहली बार किले के परकोटे से तीन किमी दूर रानी मंदिर में महाराजा यानी ज्योतिरादित्य सिंधिया के सिपहसालार कैबिनेट मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया आमसभा को संबोधित करेंगे। दिग्गी के रियासतकाल से लेकर राजनीतिक जीवन में यह पहली ऐसी सभा होगी, जब महाराजा के समर्पित लोग राघौगढ़ में हुंकार भरेंगे।   ज्योतिरादित्य सिंधिया के खास सिपहसालार और बमोरी विधानसभा से हाल ही में निर्वाचित विधायक महेंद्रसिंह सिसोदिया मंगलवार को राघोगढ़ में आमसभा को संबोधित करेंगे। इस सभा में भाजपा की पूर्व विधायक ममता मीना और जिले के पार्टी कार्यकर्ता मौजूद रहेंगे। इस दौरान गुना से सुबह 500 चार पहिया वाहन भी राघौगढ़ के लिए रवाना होंगे। राघौगढ़ नगरपालिका परिषद में कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम, पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह और जिला पंचायत सीईओ निलेश परीख ने बैठक लेकर दिशा निर्देश जारी किए। इस दौरान मंगलवार को होने वाली बैठक की भी रणनीति तैयार की गई। वहीं राघौगढ़ में रोड-शो सहित आमसभा के आयोजन को लेकर 300 पुलिस के जवान भी तैनात किए जा रहे हैं। इसको लेकर भी पुलिस अधीक्षक ने एसडीओपी सहित थाना प्रभारियों को दिशा निर्देश जारी किए हैं।   उल्लेखनीय है कि बमोरी विधानसभा उपचुनाव के पूर्व महेंद्रसिंह सिसोदिया ने कहा था कि वह अगर बमोरी से चुनाव जीते, तो राघौगढ़ में विजयी जुलूस निकालेंगे। हालांकि, कांग्रेस ने उस समय कटाक्ष किए, लेकिन अब कोई भी कांग्रेसी कुछ भी कहने से बचता हुआ नजर आ रहा है। सिसोदिया की सभा और रोड शो के लिए गुना से 500 वाहनों का काफिला रुठियाई, धरनावदा, सनोतिया, बालाभेंट, विजयपुर, दौराना, सांडा कॉलोनी होते हुए राघौगढ़ पहुंचेगा।

Dakhal News

Dakhal News 17 November 2020


bhopal, Shivraj Singh Chauhan, wishes Bhai Dooj festival, people state

भोपाल। पांच दिवसीय दीपोत्सव के आखिरी दिन आज सोमवार को भाई दूज का पर्व मनाया जा रहा है। भाई दूज या यम द्वितीया का पर्व कार्तिक मास में शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को मनाया जाता है। इसी पर्व के साथ पंच दिवसीय दीपोत्सव का समापन भी हो जाता है। भाई दूज पर भाई अपनी बहन के घर तिलक करवाने जाते हैं। ये प्रथा सदियों पुरानी है। ये दिन भाई बहन के लिए स्पेशल होता है क्योंकि इस दिन बहनें अपने भाइयों को अपने घर भोजन के लिए बुलाती हैं और उन्हें प्यार से खाना खिलाती हैं।   भाई दूज पर्व पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत भाजपा नेताओं ने प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं देते हुए मंगल कामना की है। सीएम शिवराज ने भाई दूज पर्व पर ट्वीट कर अपने बधाई संदेश में लिखा ‘गंगा पूजे यमुना को, यमी पूजे यमराज को, सुभद्रा पूजे कृष्ण को, गंगा यमुना नीर बहे, मेरे भाई आप बढ़ें, फूले-फलें। आपको 'भाई दूज' की आत्मीय बधाई! भाई-बहन के प्रेम व स्नेह का धन उत्तरोत्तर समृद्ध हो। यमदेव की कृपा हो, सब सुखी हों और सबकी मनोकामनाएं पूरी हों, यही प्रार्थना।   भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने भी प्रदेश वासियों को भाई दूज पर्व पर बधाई देते हुए अपने ट्वीट में कहा ‘आप सभी को बहन-भाई के पवित्र त्यौहार भाई दूज की हार्दिक शुभकामनाएं।   गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भाई दूज पर्व पर अपने बधाई संदेश में लिखा ‘सभी देशवासियों को भाई-बहन के पवित्र बंधन के पर्व भाई दूज ,यम द्वितीया और भगवान चित्रगुप्त जयंती की बधाई और हार्दिक शुभकामनाएं। मां पीताम्बरा से प्रार्थना है कि सभी के जीवन में सुख, शांति, समृद्धि और आरोग्य का वास हो।  

Dakhal News

Dakhal News 16 November 2020


Burhanpur, Six Congress leaders, resign, taking responsibility , by-election

बुरहानपुर। मध्यप्रदेश में 28 सीटों पर हुए उपचुनाव में भाजपा ने 19 सीटों पर भाजपा ने कब्जा किया है, जबकि 9 सीटें कांग्रेस के खाते में गई हैं। इनमें बुरहानपुर जिले की नेपानगर सीट भी शामिल है, जहां से भाजपा उम्मीदवार सुमित्रा देवी कास्डेकर ने कांग्रेस के रामकिशन पटेल को बड़े अंतर से हराया है। इस हार की जिम्मेदारी लेते हुए नेपानगर कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष सोहन सैनी सहित छह नेताओं ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया।    नेपानगर कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष सोहन सैनी, ग्रामीण ब्लॉक अध्यक्ष डाभियाखेड़ा हरीष नारखेड़े, मप्र किसान कांग्रेस जिलाध्यक्ष अशोक पाटिल, ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष दर्यापुर रविंद्र पाटिल, ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष खकनार अजय महाजन, ब्लाक अध्यक्ष धूलकोट कमल अग्रवाल ने गुरुवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ को अपने इस्तीफे भेज दिये हैं। उन्होंने नेपानगर में पार्टी उम्मीदवार की हार के लिए खुद को जिम्मेदार मानते हुए अपने पदों से इस्तीफा देने तथा कांग्रेस में कार्यकर्ता की तरह कार्य करने की बात कही है।   गौरतलब है कि नेपानगर विधानसभा सीट से वर्ष 2018 के चुनाव में कांग्रेस की सुमित्रा देवी कास्डेकर ने भाजपा की मंजू दादू को बड़े अंतर से हराया था। करीब तीन माह पहले सुमित्रा देवी कास्डेकर अपनी विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल हो गई थीं। इसके बाद यहां उपचुनाव हुए और भाजपा ने कांग्रेस से आई सुमित्रादेवी को अपना उम्मीदवार बनाया। सुमित्रा देवी ने यहां से कांग्रेस के उम्मीदवार रामकिशन पटेल को बड़े अंतर से हराया है।

Dakhal News

Dakhal News 12 November 2020


Burhanpur, Six Congress leaders, resign, taking responsibility , by-election

बुरहानपुर। मध्यप्रदेश में 28 सीटों पर हुए उपचुनाव में भाजपा ने 19 सीटों पर भाजपा ने कब्जा किया है, जबकि 9 सीटें कांग्रेस के खाते में गई हैं। इनमें बुरहानपुर जिले की नेपानगर सीट भी शामिल है, जहां से भाजपा उम्मीदवार सुमित्रा देवी कास्डेकर ने कांग्रेस के रामकिशन पटेल को बड़े अंतर से हराया है। इस हार की जिम्मेदारी लेते हुए नेपानगर कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष सोहन सैनी सहित छह नेताओं ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया।    नेपानगर कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष सोहन सैनी, ग्रामीण ब्लॉक अध्यक्ष डाभियाखेड़ा हरीष नारखेड़े, मप्र किसान कांग्रेस जिलाध्यक्ष अशोक पाटिल, ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष दर्यापुर रविंद्र पाटिल, ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष खकनार अजय महाजन, ब्लाक अध्यक्ष धूलकोट कमल अग्रवाल ने गुरुवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ को अपने इस्तीफे भेज दिये हैं। उन्होंने नेपानगर में पार्टी उम्मीदवार की हार के लिए खुद को जिम्मेदार मानते हुए अपने पदों से इस्तीफा देने तथा कांग्रेस में कार्यकर्ता की तरह कार्य करने की बात कही है।   गौरतलब है कि नेपानगर विधानसभा सीट से वर्ष 2018 के चुनाव में कांग्रेस की सुमित्रा देवी कास्डेकर ने भाजपा की मंजू दादू को बड़े अंतर से हराया था। करीब तीन माह पहले सुमित्रा देवी कास्डेकर अपनी विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल हो गई थीं। इसके बाद यहां उपचुनाव हुए और भाजपा ने कांग्रेस से आई सुमित्रादेवी को अपना उम्मीदवार बनाया। सुमित्रा देवी ने यहां से कांग्रेस के उम्मीदवार रामकिशन पटेल को बड़े अंतर से हराया है।

Dakhal News

Dakhal News 12 November 2020


bhopal,Agriculture Minister, Kamal Patel, expressed happiness

भोपाल। मध्य प्रदेश में विधानसभा उपचुनाव के परिणाम मतगणना अभी जारी है। अब तक पांच सीटों पर भाजपा और एक पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की है। कुछ देर बार स्थिति पूरी तरह से साफ हो जाएगी, लेकिन प्रदेश की सत्ता में भाजपा का शासन तय है। जीत के बाद नेता खुशियां मना रहे हैं। किसान नेता एवं कृषि विकास एवं किसान कल्याण मंत्री कमल पटेल ने मध्य प्रदेश में उपचुनाव के नतीजों पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के सपने को आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश बनाकर पूरा किया जाएगा।   कृषि मंत्री कमल पटेल ने उज्जैन में पत्रकारों से चर्चा में कहा कि कांग्रेस ने पूरे प्रदेश की जनता के साथ धोखा किया था। उन्होंने कहा झूठ बोल कर एक बार तो सत्ता हासिल कर सकते हैं लेकिन बार-बार नहीं। प्रदेश की जनता कमलनाथ सरकार आने से छटपटा रही थी और फिर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में भाजपा की सरकार आने की कामना कर रहे थी। कमल पटेल ने कहा कि उपचुनाव में जनता के मन की बात हुई है, प्रदेश में कांग्रेस का पूरी तरह सफाया हो गया है और अब भाजपा के नेतृत्व में विकास की गति तेज होगी।

Dakhal News

Dakhal News 10 November 2020


bhopal, Kamal Nath, who reached, Hanuman mandir, before the result

भोपाल।  मध्य प्रदेश में 28 सीटों पर हुए उपचुनाव के नतीजों के रुझान आने लगे हैं। 28 में से 22 सीटों के रुझाने सामने आए हैं, जिनमें से भाजपा 20 सीटों पर आगे चल रही है, जबकि कांग्रेस दो सीटों पर आगे हैं। शुरूआती रुझान भाजपा के पक्ष में दिख रहे हैं। वहीं परिणाम से पहले मप्र के पूर्व सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ राजधानी के कमला पार्क स्थित हनुमान मंदिर पहुंचे।   उपचुनाव में जीत का आशीर्वाद पाने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मंगलवार को कमला पार्क स्थित हनुमान मंदिर में दर्शन कर पूजा अर्चना की। इस अवसर पर उनके साथ राज्यसभा सांसद विवेक तनखा और सांसद नकुल नाथ साथ मौजूद थे।    इस दौरान मीडिया से बातचीत करते हुए कमलनाथ ने कहा कि आज का दिन मध्यप्रदेश के लिए और मेरे लिए महत्वपूर्ण दिन है। आज झूठ और सच का फैसला होगा। उन्होंंने कहा कि मुझे मप्र की 28 सीटों के मतदाताओं पर पूरा विश्वास है। मतदाता सच्चाई का साथ देंगे, वह मप्र का भविष्य सुरक्षित रखेंगे। शुरुआती रुझानों में भाजपा को बढ़त के सवाल पर कमलनाथ  ने कहा कि एक घंटे रुक जाइये, आश्चर्यजनक रिजल्ट आयेंगे। उन्होंने कहा कि गड़बड़ी का पूरा प्रयास हो रहा है, चुनाव में पैसों का, शराब का हर तरीके का उपयोग हुआ लेकिन सरकार कांग्रेस ही बनाएगी।

Dakhal News

Dakhal News 10 November 2020


sagar,Congress candidate, complains , difference number ,control unit of EVM

सुरखी।  मध्य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर उपचुनावों की मतगणना जारी है। शुरुआती मतगणना से ही भाजपा बढ़त बनाए हुए है। नतीजों को देखते हुए ऐसा लग रहा है कि शिवराज शासित भाजपा सरकार का प्रदेश की सत्ता पर कब्जा जारी रहेगी। इस बीच सुरखी विधानसभा सीट पर मतगणना रुकी हुई है।   कांग्रेस प्रत्याशी पारुल साहू ने ईवीएम के कंट्रोल यूनिट के नंबर में अंतर होने की शिकायत की है। इस आपत्ति के बाद सुरखी में मतगणना रोक दी गई है। उल्लेखनीय है कि सुरखी से भाजपा उम्मीदवार गोविंद राजपूत का मुकाबला भाजपा छोडक़र कांग्रेस में शामिल हुए पारुल साहू से था। गोविंद सिंह सुरखी में बढ़त बनाए हुए हैं। उन्होंने बयान दिया है कि बिना किए कुछ होता नहीं और बिना करें कुछ मिलता नहीं।  ये सभी की मेहनत का फल है। बता दें कि मतगणना रुझानों में भाजपा 19, कांग्रेस 8 और बसपा 1 सीट पर बढ़त बनाए हुए हैं। नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह भाजपा को 16 से 20 सीटों पर जीत का दावा कर चुके है।   भाजपा कहां आगेसांवेर से भाजपा के तुलसीराम सिलावट आगेग्वालियर से भाजपा के प्रदुम्न सिंह तोमर आगेअनूपपुर से भाजपा के बिसाहूलाल से आगे सुरखी से भाजपा के गोविंद राजपूत आगे बमौरी से भाजपा के महेंद्र सिंह सिसोदिया आगेबड़ा मलहरा से भाजपा के प्रदुम्न सिंह लोधी आगेग्वालियर ईस्ट से भाजपा की मुन्नालाल गोयल आगे डबरा से भाजपा की इमरती देवी आगे सुवासरा से भाजपा के हरदीप सिंग डंग आगेसांची से भाजपा के प्रभुराम आगेमान्धाता से भाजपा नारायण पटेल से आगेमुंगावली से भाजपा के बृजेन्द्र यादव आगेनेपानगर से भाजपा की सुमित्रा कासडेकर आगेबदनावर से भाजपा के राजवर्धन सिंह दत्तीगांव आगेअशोकनगर से भाजपा के जसपाल सिंह जज जी आगेजोरा से भाजपा के सूबेदार सिंह राजोधा आगे   कांग्रेस कहां आगेभांडेर से कांग्रेस के फूल सिंह बरैया आगेआगर से कांग्रेस के विपिन वानखेड़े आगेसुमावली से कॉन्ग्रेस के अजय सिंह कुशवाहा आगेकरेरा से कोंग्रेस से प्रागीलाल जाटव आगेमेहगांव से कोंग्रेस के हेमंत कटारे आगेब्यावरा से कांग्रेस के रामचंद्र दांगी आगे   बसपा कहा से आगेमुरैना से बसपा रामप्रकाश राजोरिया आगेपोहरी से बसपा कैलाश कुशवाहा आगे

Dakhal News

Dakhal News 10 November 2020


vidisha, Uma Bharti, big statement,I will fight elections

विदिशा। पूर्व केन्द्रीय मंत्री और दिग्गज भाजपा नेत्री उमा भारती अपने बेबाक बयानों को लेकर हमेशा सुर्खियों में रहती हैं। मप्र के हाल ही संपन्न हुए उपचुनाव के दौरान उमा भारती पूरी मुश्तैदी के साथ मैदान में डटी रहीं और भाजपा के लिए खूब प्रचार किया। वहीं अब उपचुनाव परिणाम से ठीक एक दिन पहले उमा भारती का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने लोकसभा चुनाव लडऩे की मंशा जाहिर की है।   दरअसल, पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती सोमवार को अपने काफिले के साथ भोपाल से अपने गृह क्षेत्र टीकमगढ़ जाने के लिए निकली थीं। इस दौरान रास्ते में विदिशा के सिरोंज बाईपास चौराहे पर उनके समर्थक और पार्टी कार्यकर्ता फूल माला लेकर उनके सम्मान में खड़े हुए थे। यहां कुछ देर के लिए रुकीं। पार्टी के कार्यकर्ताओं ने फूल मालाएं उनकी कार को समर्पित की। इस दौरान मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि ''मैं लोकसभा का चुनाव लडूंगी। उनसे यह पूछने पर कि वो कहां से चुनाव लड़ेगी, मप्र से या फिर पार्टी जहां से कहेगी वहां से लड़ेंगी, तो उमा भारती ने तपाक से कहा कि मेरा जहां से मूड होगा मैं वहां से चुनाव लड़ूंगी।    गौरतलब है कि उपचुनाव प्रचार के दौरान भी उमा भारती चुनाव लडऩे की मंशा जाहिर कर चुकी हैं। पिछले लोकसभा चुनाव में उन्होंने स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए चुनाव लडऩे से इंकार कर दिया था। 

Dakhal News

Dakhal News 9 November 2020


bhopal, Counting Gwalior , highest in East ,lowest round,Anuppur

भोपाल। विधानसभा उप निर्वाचन 2020 में प्रदेश के 19 जिलों के 28 विधानसभा क्षेत्रों की मतगणना मंगलवार, 10 नवम्बर को प्रात: 8 बजे से संबंधित जिला मुख्यालयों पर होगी। मतगणना में सबसे अधिक राउण्ड ग्वालियर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 16-ग्वालियर पूर्व में 32 राउण्ड और सबसे कम अनूपपुर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 87-अनूपपुर में 18 राउण्ड होंगे।   उप मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी प्रमोद शुक्ला ने सोमवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि मुरैना जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 4-जौरा में 27, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-5 सुमावली में 25, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 6-मुरैना में 27, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 7-दिमनी में 23, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 8-अम्बाह में 23, भिण्ड जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 12-मेहगांव में 27, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 13-गोहद में 24, ग्वालियर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 15-ग्वालियर में 30, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 19-डबरा में 24, दतिया जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 21-भांडेर में 19, शिवपुरी जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 23-करेरा में 26, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 24-पोहरी में 23, गुना जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 28-बमौरी में 23, अशोकनगर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 32-अशोकनगर में 22 एवं विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 34-मुंगावली में 21 राउण्ड होंगे।   सागर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 37-सुरखी में 22, छतरपुर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 53-मलहरा में 23, रायसेन जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 142-सॉची में 27, राजगढ़ जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 161-ब्यावरा में 25, आगर-मालवा जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 166-आगर में 24, देवास जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 172-हाटपिपल्या में 21, खण्डवा जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 175-मांधाता में 21, बुरहानपुर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 179-नेपानगर में 26, धार जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 202-बदनावर में 22, इंदौर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 211-सांवेर एवं मंदसौर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 226-सुवासरा में 28-28 राउण्ड होंगे।    

Dakhal News

Dakhal News 9 November 2020


bhopal, Chief Minister ,expressed grief over,Satna road accident

भोपाल। मध्य प्रदेश के सतना जिले में हुए भीषण सडक़ हादसे की घटना पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शोक व्यक्त किया है। उन्होंने घटना पर गहरा दुख जताते हुए मृतकों की आत्मा की शांति और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है।   सीएम शिवराज ने ट्वीट कर अपने शोक संदेश में कहा है कि ‘सतना के नागौद में हुई सडक़ दुर्घटना में कई अमूल्य जिंदगियों के असमय काल कवलित होने के समाचार से अत्यधिक पीड़ा हुई। ईश्वर से दिवंगत आत्माओं को अपने श्री चरणों में स्थान देने और परिजनों को यह वज्रपात सहन करने एवं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं।   गौरतलब है कि मध्य प्रदेश के सतना जिले में रविवार देर शाम एक भीषण हादसा हो गया। यहां एक तेज रफ्तार डंपर और बोलेरों की जोरदार टक्कर हो गई। इस दर्दनाक हादसे में सात लोगों की मौत हो गई। मृतकों में 3 महिला, 3 पुरुष और 1 बच्चा शामिल है। वहीं इस हादसे में 5 लोग गंभीर रुप से घायल हुए है। सभी घायलों को ईलाज के लिए रीवा अस्पताल रेफर किया गया है। पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुट गई है।

Dakhal News

Dakhal News 9 November 2020


bhopal, Chief Minister ,expressed grief over,Satna road accident

भोपाल। मध्य प्रदेश के सतना जिले में हुए भीषण सडक़ हादसे की घटना पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शोक व्यक्त किया है। उन्होंने घटना पर गहरा दुख जताते हुए मृतकों की आत्मा की शांति और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है।   सीएम शिवराज ने ट्वीट कर अपने शोक संदेश में कहा है कि ‘सतना के नागौद में हुई सडक़ दुर्घटना में कई अमूल्य जिंदगियों के असमय काल कवलित होने के समाचार से अत्यधिक पीड़ा हुई। ईश्वर से दिवंगत आत्माओं को अपने श्री चरणों में स्थान देने और परिजनों को यह वज्रपात सहन करने एवं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं।   गौरतलब है कि मध्य प्रदेश के सतना जिले में रविवार देर शाम एक भीषण हादसा हो गया। यहां एक तेज रफ्तार डंपर और बोलेरों की जोरदार टक्कर हो गई। इस दर्दनाक हादसे में सात लोगों की मौत हो गई। मृतकों में 3 महिला, 3 पुरुष और 1 बच्चा शामिल है। वहीं इस हादसे में 5 लोग गंभीर रुप से घायल हुए है। सभी घायलों को ईलाज के लिए रीवा अस्पताल रेफर किया गया है। पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुट गई है।

Dakhal News

Dakhal News 9 November 2020


bhopal, Chief Minister ,Shivraj congratulates, Union Minister , his birthday

भोपाल। केन्द्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. जितेन्द्र सिंह आज अपना 64वां जन्मदिन मना रहे हैं। उनका जन्म छह नवम्बर 1956 में जम्मू में हुआ था। इस अवसर पर उन्हें देशभर के नेता-राजनेताओं द्वारा शुभकामनाएं दी जा रही हैं। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उन्हें जन्मदिन की बधाई दी है।   मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को ट्वीट किया है कि -‘हमारे वरिष्ठ साथी, केंद्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. जितेन्द्र सिंह जी को जन्मदिन पर आत्मीय बधाई! ईश्वर से आपके उत्तम स्वास्थ्य और सुदीर्घ जीवन के लिए प्रार्थना करता हूं। शुभकामनाएं!’   वहीं प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी केन्द्रीय मंत्री डॉ. जितेन्द्र सिंह को जन्मदिन की शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने ट्वीट किया है कि -‘केन्द्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. जितेन्द्र सिंह जी को जन्मदिन की हार्दिक बधाई एवं अनंत शुभकामनाएं। सहजता-सरलता और कर्तव्यनिष्ठा आपके प्रभावी व्यक्तित्व की विशिष्ट पहचान है। मां पीताम्बरा से आपके उत्तम स्वास्थ्य एवं दीर्घायु जीवन की कामना करता हूँ।’   भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने केन्द्रीय मंत्री डॉ. जितेन्द्र सिंह को जन्मदिन की शुभकामनाएँ देते हुए ट्वीट किया है कि -‘शुभ जन्मदिन! पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. जितेन्द्र सिंह जी को जन्मदिन की अनेकानेक बधाई एवं शुभकामनाएं..., प्रभु श्रीराम आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण करें!’

Dakhal News

Dakhal News 6 November 2020


bhopal, Sports Minister ,reviewed construction works, reviewed activities

भोपाल। प्रदेश की खेल एवं युवा कल्याण मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने शुक्रवार को राजधानी भोपाल के टीटी नगर स्टेडियम के मुख्य द्वार के सौन्दर्यीकरण कार्य की प्रगति का जायजा लिया। उन्होंने खेल संचालक पवन कुमार जैन तथा अधिकारियों के साथ विभिन्न खेल गतिविधियों की समीक्षा भी की।   बैठक में संचालक पवन कुमार जैन ने जानकारी दी कि ग्वालियर, भोपाल, जबलपुर, शिवपुरी के राज्य खेल अकादमी में प्रथम एवं द्वितीय चरण में बोर्डिंग स्कीम के अन्तर्गत कुल 257 खिलाडिय़ों का प्रशिक्षण प्रारंभ किया गया है।   बैठक में जानकारी दी गई कि मध्यप्रदेश राज्य खेल अकादमी के 9 खिलाड़ी हॉकी एवं शूटिंग राष्ट्रीय केम्प के लिए चयनित हुए हैं। इसमें महिला हॉकी की चार खिलाड़ी इशिका चौधरी, टी. सुमन देवी, योगिता बोरा तथा बिच्छु देवी और पुरुष हॉकी के अंकित पाल भारतीय अण्डर-21 जूनियर कैम्प बैंगलूरू में प्रशिक्षण ले रहे हैं। इसी प्रकार शूटिंग रायफल की सुनिधि चौहान, एश्वर्य सिंह तोमर और शूटिंग पिस्टल की चिंकी यादव एवं  रूबिना फ्रांसिस ऑलम्पिक 2021 की तैयारी के लिए नई दिल्ली में लगाये गये कैम्प में अभ्यासरत हैं। इसके अतिरिक्त मध्यप्रदेश राज्य वाटर स्पोटर्स सेलिंग अकादमी के आठ खिलाड़ी ऑलम्पिक क्वालिफिकेशन की तैयारी के लिए मुम्बई में प्रशिक्षणरत हैं।

Dakhal News

Dakhal News 6 November 2020


shivpuri, Pohri, local villagers ,protest against, BJP candidate, return in reverse

शिवपुरी। मध्य प्रदेश में 28 विधानसभा सीटों पर मतदान में कुछ ही समय शेष रह गया है। इसके बाद उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला ईवीएम मशीन में बंद हो जाएगा। उपचुनाव में मतदान के दौरान हिंसा और झड़प के साथ ही चुनाव बहिष्कार और उम्मीदवारों के विरोध के खबरें भी सामने आई है। शिवपुरी के पोहरी में भी स्थानीय ग्रामीणों ने भाजपा प्रत्याशी का विरोध किया, जिसके बाद उन्हेें उल्टे पैर लौटना पड़ा। शिवपुरी जिले के पोहरी विधानसभा क्षेत्र में बीजेपी उम्मीदवार सुरेश राठखेड़ा को वोटिंग के दिन ग्रामीणों का भारी विरोध झेलना पड़ा। राठखेड़ा मतदान का जायजा लेने ऐंसवाया गांव पहुंचे थे, जहां ग्रामीणों ने उन्हें खूब खरी-खोटी सुनाई। गांव वालों ने ऐंसवाया में विकास कार्यों की कमी का हवाला देते हुए राठखेड़ा पर आरोप लगाए जिसका वीडियो अब वायरल हो रहा है। हालत यह हो गई कि बीजेपी प्रत्याशी को जल्दी-जल्दी गांव से बाहर निकलना पड़ा। वीडियों में ग्रामीण कह रहा है कि यहां रोड का पता नहीं है। आप क्षेत्र में घूमे नही है तो आपको क्या पता होगा। वहीं ग्रामीण की नाराजगी को देखते हुए भाजपा प्रत्याशी सुरेश राठखेड़ा ‘नहीं बना है, चलो हम बना देंगे बोल कर वहां से निकल गए। अब यह वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।  

Dakhal News

Dakhal News 3 November 2020


bhopal, Digvijay Singh ,again raised questions, about EVM

भोपाल। प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों के 9361 पोलिंग बूथ पर मंगलवार को 63 लाख 51 हजार मतदाता वोट डाल रहे हैं। इस उपचुनाव के बीच पूर्व मुख्यमंत्री एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने फिर एक बार इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) की विश्वसनीयता को लेकर सवाल खड़े किए हैं। इसके लिए उन्‍होंने विकसित देशों का हवाला देते हुए एक समाचार पत्र की वेबसाइट को सोशल मीडिया पर उद्धृत (कोट) किया है।    उन्‍होंने सोशल मीडिया ट्वीटर पर अपनी बात शुरू करते हुए Countries Using Ballot Paper for Voting लिखा । फिर आगे कहा कि तकनीकी युग में विकसित देश ईवीएम पर भरोसा नहीं करते पर भारत व कुछ छोटे देशों में ईवीएम से चुनाव होते हैं। विकसित देश क्यों नहीं कराते? क्योंकि उन्हें ईवीएम पर भरोसा नहीं है। क्यों? क्योंकि जिसमें चिप है वह हैक हो सकती है।   https://twitter.com/digvijaya_28/status/1323435365517021184   उल्लेखनीय है कि कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के कई नेताओं की तरह दिग्‍विजय सिंह भी लम्‍बे समय से ईवीएम को लेकर सवाल खड़े कर रहे हैं। लेकिन जब भी इन सभी को चुनाव आयोग ने यह बताने या साबित करने के लिए बुलाया कि वे बताएं कि कैसे ईवीएम चिप लगी होने के चलते वह हैक हो सकती है पर अब तक किसी भी दल की तरफ से कोई चुनाव आयोग यह बताने के लिए सामने नहीं आ सका है। 

Dakhal News

Dakhal News 3 November 2020


bhopal, Kamal Nath, last day of campaigning,  Congress for traitors

भोपाल। आज उप चुनाव के प्रचार का समापन में वहीं पर करने जा रहा हूँ, जहाँ से यह कहानी शुरू हुई थी। मैंने पहले ही तय किया था कि हम हमारे प्रचार के अंतिम दिन का समापन ग्वालियर में ही करेंगे। आप सभी को पता है कि यह कहानी कौन से महल से, कौन से मकान से शुरू हुई थी? आप सभी को इस कहानी को यही पर ख़त्म कर देश भर में संदेश देना है। उक्त संबोधन प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने रविवार को ग्वालियर के इंटक हाल में कांग्रेस प्रत्याशी सुनील शर्मा के समर्थन में एक विशाल जनसभा में देते हुए कही।   सभा को संबोधित करते हुए कमलनाथ ने कहा कि मैं आप सभी को यह विश्वास दिलाता हूँ कि अभी तक कई लोगों ने कांग्रेस छोड़ी है। कईयों ने बाद में कांग्रेस में प्रवेश भी लिया लेकिन गद्दारों के लिए कांग्रेस में कभी कोई स्थान नहीं है और जो एक बार बिक गया, समझो वह हमेशा के लिए बिक गया। उन्होंने कहा कि आज ही के दिन 1 नवम्बर 1956 को मध्यप्रदेश की स्थापना हुई थी। जब भी मध्यप्रदेश का नाम आता था, सबसे पहले लोग ग्वालियर का नाम लेते थे क्योंकि मध्य प्रदेश की पहचान ग्वालियर से थी लेकिन आज मध्य प्रदेश की पहचान ग्वालियर से नहीं हो रही है। आज लोग इंदौर, भोपाल, जबलपुर की बात करते हैं, इसके पीछे आखिर क्या कारण है, कौन इसका दोषी है? जिस मध्य प्रदेश की पहचान पिछले कई वर्षों से ग्वालियर से होती थी, आज वह ग्वालियर पिछड़ क्यों गया? आज मध्य प्रदेश के स्थापना दिवस पर हम सभी के सामने यह प्रश्न है?   कमलनाथ ने कहा कि जिस ग्वालियर की इतनी आन-बान-शान थी, वह विकास की दृष्टि से आखिर क्यों पिछड़ गया, हम सब को आज यह सोचने की आवश्यकता है? चुनाव तो प्रजातंत्र का उत्सव होता है, देश में करीब 60 स्थानों पर उपचुनाव हो रहे हैं लेकिन मध्यप्रदेश में 25 उपचुनाव तो सौदेबाजी के कारण हो रहे हैं। भाजपा ने मध्य प्रदेश की राजनीति को कितना कलंकित किया, इन लोगों ने कैसे मध्यप्रदेश की राजनीति को बिकाऊ बनाया यह तस्वीर आज आपके सामने हैं।   कमलनाथ ने जनता से अपील करते हुए कहा कि मैं आज आप सभी से कहना चाहता हूं कि यह कहानी यहीं से शुरू हुई थी और आप सब को इस कहानी को यहीं पर खत्म कर देश भर में संदेश देना है। ग्वालियर -चंबल के लोग भोले भाले है, सीधे साधे हैं, इनका खून गर्म है, यह बगावत कर सकते हैं लेकिन गद्दारी कभी बर्दाश्त नहीं कर सकते है। यह वीरों की भूमि है, इस माटी पर हमें गर्व है। प्रदेश में सबसे ज्यादा यहां के लोग सीमाओं पर सेना में शामिल होकर देश की सुरक्षा करते हैं।

Dakhal News

Dakhal News 1 November 2020


bhopal,People who break, society one side ,election, Vishnudutt Sharma

भोपाल। इस चुनाव में एक तरफ वह लोग हैं जो राष्ट्रवाद का विचार लिए समाज को जोडऩे का काम कर रहे हैंं। वहीं दूसरी ओर अनर्गल बयानबाजी कर समाज में विद्वेष फैलाने वाले लोग हैं। एक तरफ देश के लिए काम करने वाली भाजपा है तो दूसरी ओर आतंकवाद को समर्थन करने वाले लोगों का साथ देने वाली कांग्रेस। यह आप लोगों को तय करना है कि आप किसका साथ देंगे। यह बात भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने रविवार को मुरैना में सामाजिक बैठक को संबोधित करते हुए कही।   हमारे लिए देश पहले, दल बाद में   उन्होंने कहा कि भाजपा देश के लिए काम करती है। हमारे लिए देश पहले है उसके बाद दल। इतिहास गवाह है कि जब भी देश को त्याग और समर्पण की जरूरत हुई, तब विप्र समाज आगे आया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का इतिहास रहा है कि उसने सामाजिक विद्वेष फैलाकर सत्ता हासिल की। जनता को भ्रमित करना और अनर्गल बयानबाजी कांग्रेस का मूल चरित्र रहा है। इस चुनाव में भी कांग्रेस यही हथकंडा अपनाएगी लेकिन हमें सचेत और सजग रहना है। भाजपा की सरकार सबका साथ, सबका विकास के मंत्र पर काम कर रही है। केंद्र में नरेंद्र मोदी और प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में हर समाज और हर वर्ग के लिए योजनाएं चल रही हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने समाज का ऐसा कोई वर्ग बचा नहीं होगा जिसके लिए मुख्यमंत्री निवास पर पंचायत का आयोजन न किया हो, यहीं कारण है कि हर समाज, हर वर्ग का विश्वास भाजपा पर लगातार बढ़ा है।   जिनके बोलने से वोट कटते हैं, वो आज बेटिंग कर रहे हैं   विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि कांग्रेस अंतर्रकलह से जूझ रही है। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पूरे चुनाव प्रचार में गायब थे। आज जब चुनाव प्रचार अंतिम चरण पर है तो बोल रहे हैं कि बेटिंग पर उतरा हॅू। यह वहीं बंटाढार हैं जो कहते थे कि ‘‘मेरे भाषण देने से चुनाव में कांग्रेस के वोट कटते हैं, इसलिए मैं प्रचार पर नहीं जाता।’’ दिग्विजय सिंह अब ऐसे समय बाहर निकले हैं जब उनके हाथों में कुछ बचा नहीं है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश की जनता दिग्विजय सिंह के बंटाढार कार्यकाल को भूली नहीं है। इस चुनाव में भी उन्हें करारा जवाब देगी।   कमलनाथ ने जनकल्याणकारी योजनाओं को बंद करने का पाप किया   शर्मा ने कहा कि कमलनाथ सरकार ने चंबल क्षेत्र की जनता को धोखा दिया है, 15 महीनों में एक भी विकास के कार्य मुरैना क्षेत्र के लिए नहीं किये और जो कार्य शिवराज सरकार द्वारा किये जा रहे थे उन पर भी रोक लगा दी।चाहे संबल योजना हो या फसल बीमा योजना, लाड़ली लक्ष्मी योजना हो या कन्यादान योजना। ऐसी अनेकों जनहितकारी योजनाओं को बंद करने का पाप कमलनाथ ने किया था। उन्होंने उपस्थितजनों से अपील करते हुए कहा कि कांग्रेस ने 15 महीनों तक जो धोखेबाजी की उसका 3 नवंबर को जवाब देना है। मुरैना से भाजपा का विधायक होगा तो मुरैना के विकास को ताकत मिलेगी।

Dakhal News

Dakhal News 1 November 2020


bhopal, BJP leaders ,including CM Shivraj ,congratulate , Foundation Day

भोपाल। मध्यप्रदेश का आज रविवार को 65वां स्थापना दिवस हैं। आज ही के दिन 1 नवम्बर 1956 को मध्य प्रदेश प्रदेश ने एक अलग राज्य का दर्जा प्राप्त किया था। इस बार कोरोना संकट के चलते स्थापना दिवस सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन नहीं किया गया है। मप्र के स्थापना दिवस पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी समेत राष्ट्रीय स्तर के नेताओं ने शुभकामनाएं दी है। मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी इस अवसर पर प्रदेश की जनता को शुभकामनाएं देते हुए प्रदेश को सफल और संपन्न बनाने का वचन दोहराया है।   सीएम शिवराज ने मप्र स्थापना दिवस पर ट्वीट कर कहा कि -‘नमस्ते सदा वत्सले मातृभूमे त्वया हिन्दुभूमे सुखं वर्धितोहम्। महामङ्गले पुण्यभूमे त्वदर्थे पतत्वेष कायो नमस्ते नमस्ते।। मध्यप्रदेश के स्थापना दिवस पर आप सबको शुभकामनाएं! आज के इस पावन अवसर पर अपनी वात्सल्यमयी मातृभूमि को कोटिश: प्रणाम और वंदन करता हूं। आज हम सबका प्राणों से प्यारा मध्यप्रदेश देश के सबसे तीव्र गति से विकास पथ पर दौडऩे वाला प्रदेश है। यह आपके अथक प्रयास और योगदान का सुफल है।   एक अन्य ट्वीट कर उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश को सर्वोच्च शिखर पर स्थापित करने का स्वप्न हम सबके संकल्पित प्रयास से ही साकार होगा। हम सब मिलकर ऐसा मध्यप्रदेश गढ़ेंगे, जिसमें हर तरफ सुख, शांति, समृद्धि और खुशहाली होगी। आइये, मध्यप्रदेश दिवस पर हम सब संकल्प लें कि इस स्वप्न के साकार होने तक अथक, अविराम कार्य करेंगे। मुझे विश्वास है कि हम सब अपने इस उद्देश्य में शीघ्र सफल होंगे। जय मध्यप्रदेश!   गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने प्रदेशवासियों को स्थापना दिवस की बधाई देते हुए ट्वीट कर कहा "सुख का दाता-सबका साथी,शुभ का ये संदेश है, मां की गोद-पिता का आश्रय, मेरा  मध्यप्रदेश है। सभी प्रदेशवासियों को मप्र के स्थापना दिवस की हार्दिक बधाई। आइए ये संकल्प लें कि हम अपनी मातृभूमि को ऐसा प्रदेश बनाएंगे जहां हर घर में सुख,शांति और समृद्धि का वास हो। जय-जय मध्यप्रदेश।

Dakhal News

Dakhal News 1 November 2020


gwalior, Kamal Nath ,ran the government , lying, misleading public, Vd Sharma

ग्वालियर/भोपाल। कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव में ग्वालियर, चंबल अंचल के विकास का जनता से वादा किया था, लेकिन सरकार बनने के बाद झूठ बोलकर और जनता को गुमराह करके मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सरकार चलायी। कांग्रेस ने चंबल ग्वालियर की जनता को धोखा देने का काम किया। इस क्षेत्र के विकास को अवरूद्ध करने का काम कमलनाथ और दिग्विजय सिंह ने किया। दिग्विजय सिंह और कमलनाथ की गद्दारी का जवाब 3 नवम्बर को हमें देना है। यह बातें भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने शनिवार को सुमावली विधानसभा में पार्टी उम्मीदवार ऐंदल सिंह कंसाना के समर्थन में ग्रामीण अंचल में जनसंपर्क के दौरान कही।    प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने शनिवार को सुमावली, अंबाह, ग्वालियर पूर्व और डबरा विधानसभा में चुनाव प्रचार कर जनसभाओं को संबोधित किया। उन्होंने सुमावली विधानसभा के ग्राम कुम्हेरी, हडमासी, सांटा और मुरैना में प्रत्याशी श्री ऐंदल सिंह कंसाना के समर्थन में ग्रामीणों से संवाद किया। शर्मा ने हडमासी में नुक्कड़ सभाओं को संबोधित करते हुए कहा कि यह चुनाव 28 विधानसभाओं का चुनाव न होकर पूरे मध्यप्रदेश का चुनाव है। इस चुनाव की जीत और हार मध्यप्रदेश का भविष्य तय करेगी। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने गांव, गरीब, किसान के लिए योजना बनाई। उन योजनाओं को बंद करने के काम कमलनाथ सरकार ने किया। बाबा साहेब के सपनों को पूरा करने का काम शिवराज सरकार कर रही है।   उन्होंने कहा कि गरीबी अभिशाप नहीं है, लेकिन कांग्रेस ने गरीबों का अपमान किया। भाजपा ने हमेशा गरीबों के कल्याण के लिए योजना चलाई। समाज के हर तबके को लाभ पहुंचे इस बात की चिंता भाजपा की सरकार ने की है। उन्होंने कहा कि हडमासी गांव का हर समाज, हर वर्ग और हर क्षेत्र के विकास के लिए भारतीय जनता पार्टी प्रतिबद्ध है। हर बूथ से पिछले चुनाव से भी अधिक मत मिले और हमारी जीत ऐतिहासिक हो।

Dakhal News

Dakhal News 31 October 2020


gwalior, Kamal Nath ,ran the government , lying, misleading public, Vd Sharma

ग्वालियर/भोपाल। कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव में ग्वालियर, चंबल अंचल के विकास का जनता से वादा किया था, लेकिन सरकार बनने के बाद झूठ बोलकर और जनता को गुमराह करके मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सरकार चलायी। कांग्रेस ने चंबल ग्वालियर की जनता को धोखा देने का काम किया। इस क्षेत्र के विकास को अवरूद्ध करने का काम कमलनाथ और दिग्विजय सिंह ने किया। दिग्विजय सिंह और कमलनाथ की गद्दारी का जवाब 3 नवम्बर को हमें देना है। यह बातें भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने शनिवार को सुमावली विधानसभा में पार्टी उम्मीदवार ऐंदल सिंह कंसाना के समर्थन में ग्रामीण अंचल में जनसंपर्क के दौरान कही।    प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने शनिवार को सुमावली, अंबाह, ग्वालियर पूर्व और डबरा विधानसभा में चुनाव प्रचार कर जनसभाओं को संबोधित किया। उन्होंने सुमावली विधानसभा के ग्राम कुम्हेरी, हडमासी, सांटा और मुरैना में प्रत्याशी श्री ऐंदल सिंह कंसाना के समर्थन में ग्रामीणों से संवाद किया। शर्मा ने हडमासी में नुक्कड़ सभाओं को संबोधित करते हुए कहा कि यह चुनाव 28 विधानसभाओं का चुनाव न होकर पूरे मध्यप्रदेश का चुनाव है। इस चुनाव की जीत और हार मध्यप्रदेश का भविष्य तय करेगी। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने गांव, गरीब, किसान के लिए योजना बनाई। उन योजनाओं को बंद करने के काम कमलनाथ सरकार ने किया। बाबा साहेब के सपनों को पूरा करने का काम शिवराज सरकार कर रही है।   उन्होंने कहा कि गरीबी अभिशाप नहीं है, लेकिन कांग्रेस ने गरीबों का अपमान किया। भाजपा ने हमेशा गरीबों के कल्याण के लिए योजना चलाई। समाज के हर तबके को लाभ पहुंचे इस बात की चिंता भाजपा की सरकार ने की है। उन्होंने कहा कि हडमासी गांव का हर समाज, हर वर्ग और हर क्षेत्र के विकास के लिए भारतीय जनता पार्टी प्रतिबद्ध है। हर बूथ से पिछले चुनाव से भी अधिक मत मिले और हमारी जीत ऐतिहासिक हो।

Dakhal News

Dakhal News 31 October 2020


bhopal, CM Shivraj, Kamal Nath salute , incarnation day , Jain sage Acharya

भोपाल। जैन मुनि श्री विद्यासागर जी महाराज का आज शनिवार को 75वां अवतरण दिवस है। इस अवसर पर देश में उनके अनुयायी उन्हें नमन कर रहे हैं। मप्र के सीएम शिवराज सिंह चौहान और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज को अवतरण दिवस पर नमन किया है।   सीएम शिवराज ने ट्वीट कर कहा ‘नमोस्तु... नमोस्तु...नमोस्तु...ज्ञान और शुभत्व की साक्षात प्रतिमूर्ति, इस युग के श्रेष्ठ आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज के 75 वें अवतरण दिवस के अवसर पर उनके चरणों में नमोस्तु! आचार्यश्री ने जीव दया और मानव कल्याण का विश्वव्यापी संदेश देकर हम सभी का मार्गदर्शन किया है। एक अन्य ट्वीट कर उन्होंने कहा ‘आचार्यश्री के मार्गदर्शन और उनसे प्रेरणा प्राप्त कर हमारी सरकार ने अनेक योजनाओं का सृजन किया और सफलतापूर्वक क्रियान्वयन किया है । आचार्यश्री के मार्गदर्शन पर हमारी सरकार आंगनबाड़ी केंद्रों में पोषण आहार में शाकाहारी भोजन एवं दूध का वितरण कर रही है। आचार्यश्री भगवन शतायु हों, ताकि लंबे समय तक हम सभी को उनका मार्गदर्शन मिलता रहे। पुन: आचार्यश्री के जन्मोत्सव पर उनके चरणों में प्रणाम।   कमलनाथ ने भी किया नमन मप्र के पूर्व सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने भी जैन मुनि को अवतरण दिवस पर नमन करते हुए कहा ‘जैन संत आचार्यश्री विद्यासागर जी महाराज के 75वें अवतरण दिवस पर उनके चरणों में प्रणाम करता हूं। मैंने मप्र में मुख्यमंत्री बनने से पहले और बाद में कई बार उनके दर्शन किये और उनसे मार्गदर्शन लिया है। आचार्यश्री ने सदैव जीवदया और मानव कल्याण का संदेश दिया है। मुख्यमंत्री के रूप में हमने मप्र में एक हजार गोशालाएं खोलने का फैसला आचार्यश्री की प्रेरणा से ही लिया था। आचार्यश्री के अवतरण दिवस पर यही कामना है कि हमारा प्रदेश हराभरा और खुशहाल रहे।

Dakhal News

Dakhal News 31 October 2020


ashoknagar, Teach honest, BJPers a lesson, dishonest people, Digvijay Singh

अशोकनगर। ज्योतिरादित्य सिंधिया की बेईमान और जुल्म करने वालों की फौज भाजपा में शामिल हो गई है, उसे ईमानदार भाजपा और संघ के लोग सबक सिखायें और लोकतंत्र को बचायें। सिंधिया को ईमानदार लोग पसंद नहीं है, उनके पास बेईमानों की फौज है, ऐसे बेईमानों को पुराने खांटी भाजपा और संघ के लोगों को सबक सिखाने का समय है। यह बात प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने बुधवार की रात यहां कांग्रेस प्रत्याशी के समर्थन में एक आमसभा को संबोधित करते हुए कही।    उन्होंने कहा कि भाजपा में ईमानदार चाल-चलन और चरित्र की बात करने वाले लोगों के सिर पर सिंधिया के बेईमान लोग पहुंचकर बैठ गए हैं। अब अपने आत्म-सम्मान की रक्षा के लिए इस चुनाव में उन्हें सबक सिखाने की आवश्यकता है। दिग्विजय सिंह ने कहा कि में भाजपा और संघ के लोगों से अपील करता हूं कि वे अपने आत्म-सम्मान के लिए इन्हें सबक सिखायें। उन्होंने जिले के दो विधानसभा क्षेत्र में हो रहे उपचुनाव में अशोकनगर और मुंगावली विधानसभा क्षेत्र के भाजपा प्रत्याशियों पर निशाना साधते हुए कहा कि एक फर्जी दलित बनकर चुनाव लड़ रहा है, जिसके द्वारा दलित-आदिवासियों की जमीन की खरीद फरोख्त कर जुल्म किए जा रहे हैंं।   पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने जजपाल सिंह द्वारा वरिष्ठ पत्रकार देवेन्द्र ताम्रकार पर झूठा प्रकरण दर्ज कराकर जेल भिजवाने का मामला भी उठाते हुए कहा कि सिंधिया को ऐसे बेईमान और जुल्म करने वाले लोग ही पसंद हैं। इसी प्रकार मुंगावली विधानसभा से चुनाव लडऩे वाले वाले बृजेन्द्र सिंह यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि बिना विधायक के मंत्री बने बृजेन्द्र सिंह अपने क्षेत्र में 1800 रुपये रेत की ट्राली में दलाली लेते रहे तथा विरोध करने वालों को झूठे आबकारी के प्रकरण में फंसाया जाता रहा।    किस साबुन से हाथ धोये शिवराज ने:   दिग्विजय सिंह ने सिंधिया पर कटाक्ष करते हुए कहा कि पहले महाराज बोलते थे कि शिवराज सिंह के हाथ किसानों के खून से रंगे हुए हैं। उन्होंने सिंधिया से सवाल करते हुए कहा कि अब महाराज बतायें कि शिवराज सिंह ने कौन से साबुन से हाथ धो लिए, जो अब खून से रंगे नहीं हैं? उन्होंने सिंधिया पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस ने उन्हें पूरा सम्मान दिया, पर जिस पार्टी ने उन्हें हराया, अब उसी के चरण में जा कर बैठ गए। भाजपा, सिंधिया को सम्मान देने वाली नहीं है, सिंधिया स्वयं स्वीकारेंगे।    उपचुनावों 1977 जैसी स्थिति:    पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि प्रदेश में होने जा रहे सभी 28 सीटों पर उपचुनावों में 1977 जैसी स्थिति है। 1977 में जिस प्रकार जनतापार्टी के पक्ष में जबरदस्त स्थिति थी और कांगे्रस प्रत्याशी को क्षेत्र में प्रचार के दौरान भगा दिया जाता था, वैसी ही स्थिति इन उपचुनावों में दिखाई दे रही है। क्योंकि इन सीटों पर सिंधिया के बेईमान समर्थक चुनाव लड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि सिंधिया के कांग्रेस छोडऩे से कांग्रेस मजबूती से उभरी है और इस चुनाव में लोकतंत्र की रक्षा के लिए जनता बेईमानों को सबक सिखाने तैयार बैठी है।    खुलने लगे थे 15 साल के पन्ने:   दिग्विजय सिंह ने कमलनाथ सरकार को गिराने का कारण बताते हुए कहा कि कमलनाथ सरकार में भाजपा सरकार के 15 साल के भ्रष्टाचार के पन्ने खुलने लगे थे, इस कारण से खरीद-फरोख्त कर कमलनाथ की सरकार गिराई गई थी।

Dakhal News

Dakhal News 29 October 2020


bhopal, Tribe Suraksha Manch, submitted memorandum,Chief Minister

भोपाल। जनजाति सुरक्षा मंच मध्यप्रदेश के प्रतिनिधि मंडल ने गुरुवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से उनके निवास पर भेंट की। इस दौरान मंच के प्रतिनिधियों द्वारा मुख्यमंत्री को दिए गए सुझाव पत्र में कहा गया है कि धर्मान्तरित जनजातियों को अनुसूचित जनजाति सूची से अलग कर उन्हें दिए जाने वाले आरक्षण को समाप्त करना चाहिए। प्रतिनिधि मंडल में जनजाति सुरक्षा मंच के प्रमुख कालू सिंह, मुजालदा, क्षेत्र जनजाति संपर्क प्रमुख श्यामा जी ताहेड़, योगीराज परते, मनोहर अवास्या, लक्ष्मीनारायण बामने, सुरभि आत्रराम शामिल थे।   जनजाति सुरक्षा मंच के सुझाव पत्र में कहा गया है कि वास्तविक जनजातियों के साथ पूरा न्याय करते हुए उन्हें ही निर्धारित सुविधाएं प्रदान की जाएं। वर्ष 2010 में मंच ने इस विषय पर जनमत संग्रह के लिए एक हस्ताक्षर अभियान चलाया था, जिसमें 27 लाख से अधिक जनजाति वर्ग के लोगों ने हस्ताक्षर किए थे। वर्ष 1970 में तत्कालीन सांसद, जनजाति नेता स्व. कार्तिक उरांव ने 235 लोक सभा सदस्यों के हस्ताक्षर से युक्त आवेदन तत्कालीन प्रधानमंत्री को सौंपा था। इस संबंध में अनुसूचित जाति/जनजाति आदेश (संशोधन) विधेयक 1967 की संयुक्त संसदीय समिति की अनुशंसा में भी धर्मांतरण करने वाले जनजाति के व्यक्तियों को आरक्षण के लिए अपात्र माना गया था।

Dakhal News

Dakhal News 29 October 2020


sagar,Congress candidate, alleges disturbances, voter list, collector BJP agent

सागर। मध्य प्रदेश में जैसे- जैसे विधानसभा उपचुनाव की तारीख नजदीक आ रही है, वैसे वैसे आरोप- प्रत्यारोप का दौर भी तेज होता जा रहा है। इंदौर के बाद सागर जिले की सुरखी विधानसभा सीट से कांग्रेस उम्मीदवार पारुल साहू ने मतदाता सूची में हेरफेर का आरोप लगाया है। वहीं, भाजपा ने पारुल साहू के आरोपों पर पलटवार करते हुए इसे हार की बौखलाहट बताया है।   कांग्रेस प्रत्याशी पारुल साहू ने मतदाता सूची में गड़बड़ी का आरोप लगाने के साथ ही जिला निर्वाचन अधिकारी पर भी गंभीर आरोप लगाए है। उन्होंने जिला निर्वाचन अधिकारी कलेक्टर दीपक सिंह पर भाजपा के एजेंट के रूप में काम करने का आरोप लगाते हुए कहा है कि विधानसभा की मतदाता सूची में नौ हजार फर्जी मतदाता के नाम जोड़े गए हैं। पारुल ने इस मामले को लेकर चुनाव आयोग में शिकायत कर कलेक्टर को हटाने की मांग की है।    भाजपा ने किया पलटवार वहीं कांग्रेस प्रत्याशी पारुल साहू द्वारा मतदाता सूची में गड़बड़ी के आरोपों पर भाजपा नेता और सुरखी विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी गोविंद सिंह राजपूत ने पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि मतदाता सूची में इतने बड़े स्तर पर गड़बड़ी संभव नहीं है। कांग्रेस प्रत्याशी अपनी संभावित हार से बौखलाई है, इसलिए इस प्रकार के झूठे आरोप लगा रही हैं।   गौरतलब है कि इससे पहले इंदौर की सबसे हॉट सीट सांवेर से भी कांग्रेस प्रशासन पर भाजपा को फायदा पहुंचाने का आरोप लगा चुकी है। सांवेर से कांग्रेस प्रत्याशी प्रेमचंद गुड्डू ने भी बीएलओ पर शहर के आसपास के क्षेत्रों के पोलिंग बूथों पर फर्जी तरीके से नाम बढ़ाने का आरोप लगाते हुए आयोग से शिकायत की थी। कांग्रेस लगातार उपचुनाव में निष्पक्षता को लेकर सवाल उठा रही है। कांग्रेस कई विधानसभा सीटों पर पुलिस और प्रशासन पर भाजपा के पक्ष में काम करने का आरोप लगा चुकी है और चुनाव आयोग को नामजद शिकायत भी कर चुकी है। पूर्व सीएम कमलनाथ भी पत्र लिखकर चुनाव आयोग से निष्पक्ष चुनाव की मांग कर चुके हैं।

Dakhal News

Dakhal News 29 October 2020


anuppur, Former MLA, Pramila Singh, returns home, Chief Minister ,gets BJP membership

अनूपपुर। पिछले चुनाव के दौरान भाजपा छोड़ कांग्रेस में शामिल हुई जैतपुर से पूर्व विधायक प्रमिला सिंह ने घर वापसी की है। वे कांग्रेस छोड़ पुनः भाजपा में शामिल हो गई हैं। अनूपपुर विधानसभा उपचुनाव में भाजपा उम्मीदवार बिसाहूलाल सिंह के चुनाव प्रचार के दूसरे दिन बुधवार को ग्राम पाली में आयोजित एक जनसभा में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उन्हें भाजपा की सदस्यता ग्रहण कराई। ज्ञात हो कि वर्ष 2018 में जैतपुर विधानसभा से टिकट नहीं मिलने से नाराज विधायक प्रमिला सिंह ने भाजपा से त्यागपत्र देकर कांग्रेस की सदस्यता ली थी और बाद में कांग्रेस के टिकट पर शहडोल लोकसभा का चुनाव लड़ा था। इस चुनाव में भाजपा उम्मीदवार हिमान्द्री सिंह ने उन्हें चार लाख से अधिक मतों से पराजित किया था। पूर्व विधायक प्रमिला सिंह ने बुधवार को ग्राम पाली में मुख्यमंत्री की आमसभा के बीच कांग्रेस से नाता तोड़ पुनः भाजपा का दामन थाम लिया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने उन्हें भाजपा का अंगवस्त्र पहनाकर पार्टी में शामिल किया।

Dakhal News

Dakhal News 28 October 2020


bhopal, Congress tightened up , Scindia, told BJP, resolution letter , bundle of lies

भोपाल। मध्यप्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव से पहले भाजपा और कांग्रेस नेता जमकर एक दूसरे पर निशाना साध रहे हैं। वहीं अब भाजपा के संकल्प पत्र को लेकर कांग्रेस ने निशाना साधा है और संकल्प पत्र को झूठ का पुलिंदा बताया है। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने कहा कि आज भाजपा ने 28 उपचुनाव वाले क्षेत्रों के लिए 28 संकल्प पत्र जारी किए हैं, इन संकल्प पत्रों के मुख्य पृष्ठ से ज्योतिरादित्य सिंधिया का फोटो गायब है। वह ज्योतिरादित्य सिंधिया, जिन्हें अभी तक भाजपा अपना मुख्य चेहरा बता रही थी, चॉकलेटी चेहरा बता रही थी। उन्हें स्थान भी मिला है तो अतिरिक्त पेज पर? यह सही है कि भाजपा में उनका थोड़ा सम्मान बढ़ा है पहले स्टार प्रचारकों की सूची में उन्हें दस नंबरी बनाया गया था, अब इस संकल्प पत्र की सूची में उन्हें नौ नंबरी बनाया गया है। कैलाश विजयवर्गीय के बाद उन्हें स्थान दिया गया है, नंदकुमार चौहान, प्रभात झा, गोपाल भार्गव जैसे नेताओं के साथ स्थान देकर यह बताया गया कि भाजपा में उनका कितना सम्मान है ?   नरेन्द्र सलूजा ने बुधवार को बयान जारी कर कहा कि जिन सिंधिया के बारे में भाजपा कहती थी कि वह दूल्हा हैं, उनके चेहरे की बदौलत कांग्रेस की मध्य प्रदेश में सरकार बनी, ग्वालियर -चंबल में सबसे ज्यादा सीटें कांग्रेस उनके चेहरे की बदौलत जीती, उन्हीं सिंधिया को आज भाजपा ने गायब कर बता दिया है कि उसकी नजर में भी सिंधिया जी का कितना सम्मान है और उनकी चुनाव में कितनी उपयोगिता है? केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर पहले ही कह चुके हैं कि सिंधिया को भाजपा की रीति- नीति में ढलने में अभी समय लगेगा। जो सिंधिया कांग्रेस छोडऩे की वजह अपना मान सम्मान बताते थे, आज भाजपा में उनकी कितनी दुर्गति हो गई है।    उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि पहले भाजपा ने अपने प्रचार रथ से उनका फोटो गायब किया, फिर स्टार प्रचारकों की सूची में उनका दसवें नंबर पर नाम शामिल किया, फिर 30 लोगों की स्टार प्रचारकों की सूची में उनके एक भी समर्थक को शामिल नहीं किया और अब संकल्प पत्र के मुख्य पृष्ठ से उनका फोटो गायब किया और शामिल भी किया तो तीसरे पेज में 9 नम्बरी के रूप में। इससे यह साबित होता है कि भाजपा अभी तक सिंधिया को पचा नहीं पायी और पार्टी में उनकी कोई उपयोगिता नहीं है।   सीएम शिवराज पर निशाना साधते हुए सलूजा ने कहा कि इसके साथ ही घोषणावीर के रूप में कुख्यात हो चुके शिवराज जी की वजह से घोषणा पत्र का नाम बदलकर भाजपा कभी दृष्टि पत्र, कभी संकल्प पत्र बताती है। आज जारी संकल्प पत्र में भी किसानों के खातों में 6 माह में 27 हजार करोड़ रुपये डालने का झूठ परोसा गया है, संबल योजना, फसल बीमा योजना को लेकर भी मिथ्या प्रचार किया गया है एवं जिस कर्जमाफी का वचन कथित तौर पर सिंधिया जी पूरा कराने के लिए भाजपा में गये थे, उस कर्जमाफी के मुददे का भी इसमें कोई जिक्र नहीं है। मानवता के नाम पर राजनीति करने वाली भाजपा ने कोरोना वैक्सीन को भी चुनावी मुद्दा बना दिया। जिस वैकसीन पर हर भारतवासी का अधिकार है, उस कोरोना वैक्सीन को संकल्प पत्र में डालकर घृणित राजनीति का एक उदाहरण प्रस्तुत किया गया है। कुल मिलाकर यह संकल्प पत्र झूठ का पुलिंदा है

Dakhal News

Dakhal News 28 October 2020


bhopal, Congress tightened up , Scindia, told BJP, resolution letter , bundle of lies

भोपाल। मध्यप्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव से पहले भाजपा और कांग्रेस नेता जमकर एक दूसरे पर निशाना साध रहे हैं। वहीं अब भाजपा के संकल्प पत्र को लेकर कांग्रेस ने निशाना साधा है और संकल्प पत्र को झूठ का पुलिंदा बताया है। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने कहा कि आज भाजपा ने 28 उपचुनाव वाले क्षेत्रों के लिए 28 संकल्प पत्र जारी किए हैं, इन संकल्प पत्रों के मुख्य पृष्ठ से ज्योतिरादित्य सिंधिया का फोटो गायब है। वह ज्योतिरादित्य सिंधिया, जिन्हें अभी तक भाजपा अपना मुख्य चेहरा बता रही थी, चॉकलेटी चेहरा बता रही थी। उन्हें स्थान भी मिला है तो अतिरिक्त पेज पर? यह सही है कि भाजपा में उनका थोड़ा सम्मान बढ़ा है पहले स्टार प्रचारकों की सूची में उन्हें दस नंबरी बनाया गया था, अब इस संकल्प पत्र की सूची में उन्हें नौ नंबरी बनाया गया है। कैलाश विजयवर्गीय के बाद उन्हें स्थान दिया गया है, नंदकुमार चौहान, प्रभात झा, गोपाल भार्गव जैसे नेताओं के साथ स्थान देकर यह बताया गया कि भाजपा में उनका कितना सम्मान है ?   नरेन्द्र सलूजा ने बुधवार को बयान जारी कर कहा कि जिन सिंधिया के बारे में भाजपा कहती थी कि वह दूल्हा हैं, उनके चेहरे की बदौलत कांग्रेस की मध्य प्रदेश में सरकार बनी, ग्वालियर -चंबल में सबसे ज्यादा सीटें कांग्रेस उनके चेहरे की बदौलत जीती, उन्हीं सिंधिया को आज भाजपा ने गायब कर बता दिया है कि उसकी नजर में भी सिंधिया जी का कितना सम्मान है और उनकी चुनाव में कितनी उपयोगिता है? केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर पहले ही कह चुके हैं कि सिंधिया को भाजपा की रीति- नीति में ढलने में अभी समय लगेगा। जो सिंधिया कांग्रेस छोडऩे की वजह अपना मान सम्मान बताते थे, आज भाजपा में उनकी कितनी दुर्गति हो गई है।    उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि पहले भाजपा ने अपने प्रचार रथ से उनका फोटो गायब किया, फिर स्टार प्रचारकों की सूची में उनका दसवें नंबर पर नाम शामिल किया, फिर 30 लोगों की स्टार प्रचारकों की सूची में उनके एक भी समर्थक को शामिल नहीं किया और अब संकल्प पत्र के मुख्य पृष्ठ से उनका फोटो गायब किया और शामिल भी किया तो तीसरे पेज में 9 नम्बरी के रूप में। इससे यह साबित होता है कि भाजपा अभी तक सिंधिया को पचा नहीं पायी और पार्टी में उनकी कोई उपयोगिता नहीं है।   सीएम शिवराज पर निशाना साधते हुए सलूजा ने कहा कि इसके साथ ही घोषणावीर के रूप में कुख्यात हो चुके शिवराज जी की वजह से घोषणा पत्र का नाम बदलकर भाजपा कभी दृष्टि पत्र, कभी संकल्प पत्र बताती है। आज जारी संकल्प पत्र में भी किसानों के खातों में 6 माह में 27 हजार करोड़ रुपये डालने का झूठ परोसा गया है, संबल योजना, फसल बीमा योजना को लेकर भी मिथ्या प्रचार किया गया है एवं जिस कर्जमाफी का वचन कथित तौर पर सिंधिया जी पूरा कराने के लिए भाजपा में गये थे, उस कर्जमाफी के मुददे का भी इसमें कोई जिक्र नहीं है। मानवता के नाम पर राजनीति करने वाली भाजपा ने कोरोना वैक्सीन को भी चुनावी मुद्दा बना दिया। जिस वैकसीन पर हर भारतवासी का अधिकार है, उस कोरोना वैक्सीन को संकल्प पत्र में डालकर घृणित राजनीति का एक उदाहरण प्रस्तुत किया गया है। कुल मिलाकर यह संकल्प पत्र झूठ का पुलिंदा है

Dakhal News

Dakhal News 28 October 2020


bhopal, Congress has become ,symbol of destruction , state, Shivraj

भोपाल। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार ने 15 माह में भ्रष्टाचार के अलावा कुछ नहीं किया। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने वल्लभ भवन को दलालों की मंडी बनाने का पाप किया है। 2003 के पहले भी प्रदेश को मिस्टर बंटाढार ने बर्बाद कर दिया। कांग्रेस की सरकारें तो मध्यप्रदेश के लिए तबाही का प्रतीक बन गई है। इनके पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और कमलनाथ के लिए विकास के कार्य असंभव होते थे, लेकिन भाजपा की सरकार तो प्रदेश में विकास के लिए ही बनी है। हम विकास के कार्यों में कोई कमी नहीं आने देंगे। हमारा तो नारा ही सबका साथ-सबका विकास है। ये बातें मंगलवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मांधाता विधानसभा के किल्लौद माल, नेपानगर के देड़तलाई एवं अनूपपुर विधानसभा के खोटा टोल में भी सभाओं को संबोधित करते हुए कही।   कमलनाथ में नहीं थी इच्छाशक्ति   उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अफसरों के पदों की बोली लगाई। उनसे पैसा कमाया। उनके पास कांग्रेस के मंत्री-विधायक विकास कार्यों के लिए जाते थे तो वे कहते थे कि खजाना खाली है। पैसे नहीं हैं, लेकिन हम क्या ओरंगजेब थे, जो हमने खजाना लूट लिया। कमलनाथ के पास विकास कार्य कराने की इच्छाशक्ति नहीं थी। हमने भी विकास कराया और अभी कोरोना काल के कारण कुछ दिक्कतें हैं, लेकिन विकास कार्यों के लिए कोई कमी नहीं है। विकास के लिए हमारा खजाना हमेशा भरा हुआ है। मैं अपनी जनता के सामने जाकर उन्हें घूटने टेककर प्रणाम करता हूं तो कांग्रेसी कहते हैं कि शिवराज सिंह चौहान ने तो जनता के सामने घूटने ही टेक दिए हैं, लेकिन वे क्या जाने कि लोकतंत्र में जनता ही भगवान होती है और भगवान के आगे यदि मैं झुककर प्रणाम करता हूं तो उन्हें इससे भी दिक्कत है।   विकास का तो अभी टेलर है, पिक्चर बाकी है   मुख्यमंत्री ने कहा कि हम तो सरकार में जनता का और प्रदेश का विकास करने के लिए ही आए हैं। हमारा तो एकमात्र लक्ष्य प्रदेश और उसकी जनता का विकास ही है। कांग्रेस की सरकार में जनता सडक़, बिजली, पानी, स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए तरसती थी, लेकिन हमने प्रदेश में सडक़ों का जाल बिछाया है तो 24 घंटे बिजली देने का काम किया है। घर-घर पानी पहुंचाया है। प्रदेश की स्वास्थ्य सुविधाओं को आधुनिक बनाया है। विकास का तो अभी टेलर है, पिक्चर तो बाकी है।    उन्होंने कहा कि मैं विकास के काम करवाता हूं, अपने भांजे-भांजियों की फीस भरवाता हूं, गरीबों को आर्थिक सहायता देता हूं, किसानों को सम्मान निधि देता हूं तो वे मुझे नालायक बताते हैं, नंगा-भूखा कहते हैं। वे तो सेठ हैं, उद्योगपति हैं। कमलनाथ सरकार में हमारी योजनाओं को बंद कर दिया गया। हम बेटियों के कन्यादान के लिए उन्हें 28 हजार रुपये देते थे तो कमलनाथ ने 51 हजार कर दिए, लेकिन दिया एक धेला नहीं। संबल योजना के जरिए हम गरीब के अंतिम संस्कार के लिए उसे पांच हजार रुपये देते थे तो इन्होंने वे भी बंद कर दिए। किसी गरीब की मौत पर परिवार को 4 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देते थे तो वह भी इन्होंने बंद कर दी। हम नंगे-भूखे होकर गरीबों का कल्याण करते हैं, लेकिन ये सेठ, उद्योगपति कमलनाथ तो गरीबों का शोषण करते थे।   कांग्रेसी आएंगे, लालच का जाल फैलाएंगे   शिवराज ने कहा कि चुनाव है तो कांग्रेसी आएंगे, शराब, कंबल और नोट के लालच का जाल फैलाएंगे, कर्जमाफी का जाल फैलाएंगे, लेकिन इस बार इनके जाल में फंसना नहीं है। इस बार उनके झूठे वचनों में आकर नुकसान नहीं करवाना है। यदि सरकार का विधायक जीतेगा तो क्षेत्र में विकास ही विकास होंगे और यदि कोई भी जीत गया तो वह विकास नहीं कराएगा, वह तो अपना भला करेगा। उन्होंने मांधाता विधानसभा के किल्लौद में सभा को संबोधित करते हुए कहा कि किल्लौद को तहसील बनाया जाएगा। भले ही किल्लौद प्रदेश की सबसे छोटी तहसील बने, लेकिन बनाया जाएगा। आदिवासियों के कब्जे वाली राजस्व की जमीनों पर उनको पट्टे भी दिए जाएंगे।    झूठे सर्टिफिकेट बांट दिए   मुख्यमंत्री ने कहा कि कमलनाथ ने कर्जमाफी का झूठा वादा करके सरकार बनाई और जब कर्जमाफी करने की बारी आई तो झूठे सर्टिफिकेट ही बांट दिए। कमलनाथ और इनके नेता राहुल गांधी ने वचन दिया था कि सरकार में आते ही 10 दिनों के अंदर किसानों का कर्जमाफ कर देंगे। यदि कर्जमाफ नहीं कर सके तो मुख्यमंत्री ही बदल देंगे, लेकिन न तो कर्जमाफी हुई और न ही 10 दिनों में मुख्यमंत्री बदल पाए। इन्होंने किसानों की कर्जमाफी तो नहीं की, बल्कि किसानों को और ज्यादा कर्जदार बना दिया। किसान दो लाख रुपये के चक्कर में आ गए और डिफाल्टर हो गए। अब वे सहकारी समितियों से खाद, बीज नहीं उठा पा रहे हैं। कमलनाथ ने किसानों के साथ धोखा, छलावा और फरेब किया है, लेकिन यह प्रदेश के किसान हैं, कमलनाथ-कांग्रेस को बता देंगे कि उनके साथ धोखा करने का नतीजा क्या होता है।

Dakhal News

Dakhal News 27 October 2020


bhopal, Congress has become ,symbol of destruction , state, Shivraj

भोपाल। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार ने 15 माह में भ्रष्टाचार के अलावा कुछ नहीं किया। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने वल्लभ भवन को दलालों की मंडी बनाने का पाप किया है। 2003 के पहले भी प्रदेश को मिस्टर बंटाढार ने बर्बाद कर दिया। कांग्रेस की सरकारें तो मध्यप्रदेश के लिए तबाही का प्रतीक बन गई है। इनके पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और कमलनाथ के लिए विकास के कार्य असंभव होते थे, लेकिन भाजपा की सरकार तो प्रदेश में विकास के लिए ही बनी है। हम विकास के कार्यों में कोई कमी नहीं आने देंगे। हमारा तो नारा ही सबका साथ-सबका विकास है। ये बातें मंगलवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मांधाता विधानसभा के किल्लौद माल, नेपानगर के देड़तलाई एवं अनूपपुर विधानसभा के खोटा टोल में भी सभाओं को संबोधित करते हुए कही।   कमलनाथ में नहीं थी इच्छाशक्ति   उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अफसरों के पदों की बोली लगाई। उनसे पैसा कमाया। उनके पास कांग्रेस के मंत्री-विधायक विकास कार्यों के लिए जाते थे तो वे कहते थे कि खजाना खाली है। पैसे नहीं हैं, लेकिन हम क्या ओरंगजेब थे, जो हमने खजाना लूट लिया। कमलनाथ के पास विकास कार्य कराने की इच्छाशक्ति नहीं थी। हमने भी विकास कराया और अभी कोरोना काल के कारण कुछ दिक्कतें हैं, लेकिन विकास कार्यों के लिए कोई कमी नहीं है। विकास के लिए हमारा खजाना हमेशा भरा हुआ है। मैं अपनी जनता के सामने जाकर उन्हें घूटने टेककर प्रणाम करता हूं तो कांग्रेसी कहते हैं कि शिवराज सिंह चौहान ने तो जनता के सामने घूटने ही टेक दिए हैं, लेकिन वे क्या जाने कि लोकतंत्र में जनता ही भगवान होती है और भगवान के आगे यदि मैं झुककर प्रणाम करता हूं तो उन्हें इससे भी दिक्कत है।   विकास का तो अभी टेलर है, पिक्चर बाकी है   मुख्यमंत्री ने कहा कि हम तो सरकार में जनता का और प्रदेश का विकास करने के लिए ही आए हैं। हमारा तो एकमात्र लक्ष्य प्रदेश और उसकी जनता का विकास ही है। कांग्रेस की सरकार में जनता सडक़, बिजली, पानी, स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए तरसती थी, लेकिन हमने प्रदेश में सडक़ों का जाल बिछाया है तो 24 घंटे बिजली देने का काम किया है। घर-घर पानी पहुंचाया है। प्रदेश की स्वास्थ्य सुविधाओं को आधुनिक बनाया है। विकास का तो अभी टेलर है, पिक्चर तो बाकी है।    उन्होंने कहा कि मैं विकास के काम करवाता हूं, अपने भांजे-भांजियों की फीस भरवाता हूं, गरीबों को आर्थिक सहायता देता हूं, किसानों को सम्मान निधि देता हूं तो वे मुझे नालायक बताते हैं, नंगा-भूखा कहते हैं। वे तो सेठ हैं, उद्योगपति हैं। कमलनाथ सरकार में हमारी योजनाओं को बंद कर दिया गया। हम बेटियों के कन्यादान के लिए उन्हें 28 हजार रुपये देते थे तो कमलनाथ ने 51 हजार कर दिए, लेकिन दिया एक धेला नहीं। संबल योजना के जरिए हम गरीब के अंतिम संस्कार के लिए उसे पांच हजार रुपये देते थे तो इन्होंने वे भी बंद कर दिए। किसी गरीब की मौत पर परिवार को 4 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देते थे तो वह भी इन्होंने बंद कर दी। हम नंगे-भूखे होकर गरीबों का कल्याण करते हैं, लेकिन ये सेठ, उद्योगपति कमलनाथ तो गरीबों का शोषण करते थे।   कांग्रेसी आएंगे, लालच का जाल फैलाएंगे   शिवराज ने कहा कि चुनाव है तो कांग्रेसी आएंगे, शराब, कंबल और नोट के लालच का जाल फैलाएंगे, कर्जमाफी का जाल फैलाएंगे, लेकिन इस बार इनके जाल में फंसना नहीं है। इस बार उनके झूठे वचनों में आकर नुकसान नहीं करवाना है। यदि सरकार का विधायक जीतेगा तो क्षेत्र में विकास ही विकास होंगे और यदि कोई भी जीत गया तो वह विकास नहीं कराएगा, वह तो अपना भला करेगा। उन्होंने मांधाता विधानसभा के किल्लौद में सभा को संबोधित करते हुए कहा कि किल्लौद को तहसील बनाया जाएगा। भले ही किल्लौद प्रदेश की सबसे छोटी तहसील बने, लेकिन बनाया जाएगा। आदिवासियों के कब्जे वाली राजस्व की जमीनों पर उनको पट्टे भी दिए जाएंगे।    झूठे सर्टिफिकेट बांट दिए   मुख्यमंत्री ने कहा कि कमलनाथ ने कर्जमाफी का झूठा वादा करके सरकार बनाई और जब कर्जमाफी करने की बारी आई तो झूठे सर्टिफिकेट ही बांट दिए। कमलनाथ और इनके नेता राहुल गांधी ने वचन दिया था कि सरकार में आते ही 10 दिनों के अंदर किसानों का कर्जमाफ कर देंगे। यदि कर्जमाफ नहीं कर सके तो मुख्यमंत्री ही बदल देंगे, लेकिन न तो कर्जमाफी हुई और न ही 10 दिनों में मुख्यमंत्री बदल पाए। इन्होंने किसानों की कर्जमाफी तो नहीं की, बल्कि किसानों को और ज्यादा कर्जदार बना दिया। किसान दो लाख रुपये के चक्कर में आ गए और डिफाल्टर हो गए। अब वे सहकारी समितियों से खाद, बीज नहीं उठा पा रहे हैं। कमलनाथ ने किसानों के साथ धोखा, छलावा और फरेब किया है, लेकिन यह प्रदेश के किसान हैं, कमलनाथ-कांग्रेस को बता देंगे कि उनके साथ धोखा करने का नतीजा क्या होता है।

Dakhal News

Dakhal News 27 October 2020


bhopal, Congress government,

भोपाल। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार ने लॉ एंड ऑर्डर का बंटाढार कर दिया था। बस भ्रष्टाचार का बोलबाला था। दिग्विजय सिंह ने सरकारी बंगले में बैठकर ‘लॉ’ चलाया। वे तबादलों में, ठेकों में ला-ला करते थे और कमलनाथ इसके लिए ऑर्डर देते थे। कमलनाथ के आने के बाद मध्यप्रदेश में सबसे बड़ा तबादला उद्योग चला। कई कांग्रेसियों को तो रोजगार भी मिल गया था। यह बात भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने मंगलवार को सुवासरा विधानसभा में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए कही।   उन्होंने कहा कि कमलनाथ ने सरकार में आने के पहले युवाओं से वादा किया था कि बेरोजगारों को प्रतिमाह 4 हजार रूपए भत्ता दिया जाएगा। किसानों का 2 लाख रुपये तक का कर्जामाफ करने का वादा किया था। कांग्रेस सिर्फ बोलती है, करती नहीं है, लेकिन भाजपा जो बोलती है, वह करती भी है। कांग्रेस की विशेषता है कुछ भी बोलना।   कार्यकर्ता ही भाजपा की सेना है   विजयवर्गीय ने कहा कि पोलिंग बूथ के कार्यकर्ता भाजपा की सेना हैं। जिस तरह भारत की सेना सीमा पर खड़े होकर बाहर के दुश्मन से लड़ रही है उसी तरह भाजपा का पोलिंग बूथ का कार्यकर्ता अंदर के दुश्मन से लड़ता है। देश में अफजल गुरू जैसे आतंकवादी को न्यायपालिका फांसी देती है तो नारे लगाए जाते हैं अफजल गुरू हम शर्मिंदा है, तेरे कातिल जिंदा हैं। कांग्रेस के नेता राहुल गांधी, कम्युनिस्ट पार्टी के नेता सीताराम येचुरी और मुलायम सिंह यादव यह सभी उनकी पीठ थपथपाने वाले नेताओं को माफ नहीं करना चाहिए। जम्मू-कश्मीर में महबूबा मुफ्ती की हिम्मत कैसे हुई यह कहने की कि मैं तिरंगे को हाथ नहीं लगाऊंगी। महबूबा को देश में रहने का अधिकार नहीं है। कांग्रेस की पहचान विनाश की रही है और भाजपा की पहचान विकास की है। भाजपा विकास करके बताती है। कांग्रेस वही करती है, जिससे उनका घर और तिजोरी भरे। उन्हें प्रदेश और देश की चिंता नहीं है।   कांग्रेस को देश की जनता माफ नहीं करेगी   विजयवर्गीय ने कहा कि कांग्रेस के नेता राहुल गांधी कहते हैं कि चीन की सेना 1200 कि.मी. देश के अंदर आ गई। राहुल गांधी को कि.मी. इंच, फुट का भी ज्ञान नहीं है। अगर चीन की सेना 1200 कि.मी. अंदर आती तो दिल्ली तक आ जाती। राहुल गांधी ने देश की सेना का अपमान किया है। देश की जनता कभी माफ नहीं करेगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दुनिया में कहीं पर भी जाते हैं तो मोदी-मोदी के नाते लगते हैं। मोदी जी ने करोड़ों जनता का मान-सम्मान बढ़ाने का काम किया है। मोदी जी ने भारत को दुनिया के अंदर सक्षम देश बनाया है।    उन्होंने कहा कि देश की माताओं, बहनों की आंखों में खाना बनाते समय आंसू आते थे। उनके आंसू पोछने का काम गैस चूल्हा देकर उज्जवला योजना के माध्यम से प्रधानमंत्री मोदी ने किया। यही भाजपा का विकास और विचार है। मोदी जी ने किसी भी गरीब से भेदभाव नहीं किया। मोदी जी कहते हैं सबका साथ-सबका विकास और सबका विश्वास तो भाजपा ने सबका विश्वास जीतने का काम किया है। उन्होंने कहा कि यह उपचुनाव साधारण नहीं है,  यह मध्यप्रदेश के भविष्य का निर्धारण करेगा। इसलिए भाजपा को जिताने का संकल्प लें।

Dakhal News

Dakhal News 27 October 2020


bhopal, Congress government,

भोपाल। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार ने लॉ एंड ऑर्डर का बंटाढार कर दिया था। बस भ्रष्टाचार का बोलबाला था। दिग्विजय सिंह ने सरकारी बंगले में बैठकर ‘लॉ’ चलाया। वे तबादलों में, ठेकों में ला-ला करते थे और कमलनाथ इसके लिए ऑर्डर देते थे। कमलनाथ के आने के बाद मध्यप्रदेश में सबसे बड़ा तबादला उद्योग चला। कई कांग्रेसियों को तो रोजगार भी मिल गया था। यह बात भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने मंगलवार को सुवासरा विधानसभा में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए कही।   उन्होंने कहा कि कमलनाथ ने सरकार में आने के पहले युवाओं से वादा किया था कि बेरोजगारों को प्रतिमाह 4 हजार रूपए भत्ता दिया जाएगा। किसानों का 2 लाख रुपये तक का कर्जामाफ करने का वादा किया था। कांग्रेस सिर्फ बोलती है, करती नहीं है, लेकिन भाजपा जो बोलती है, वह करती भी है। कांग्रेस की विशेषता है कुछ भी बोलना।   कार्यकर्ता ही भाजपा की सेना है   विजयवर्गीय ने कहा कि पोलिंग बूथ के कार्यकर्ता भाजपा की सेना हैं। जिस तरह भारत की सेना सीमा पर खड़े होकर बाहर के दुश्मन से लड़ रही है उसी तरह भाजपा का पोलिंग बूथ का कार्यकर्ता अंदर के दुश्मन से लड़ता है। देश में अफजल गुरू जैसे आतंकवादी को न्यायपालिका फांसी देती है तो नारे लगाए जाते हैं अफजल गुरू हम शर्मिंदा है, तेरे कातिल जिंदा हैं। कांग्रेस के नेता राहुल गांधी, कम्युनिस्ट पार्टी के नेता सीताराम येचुरी और मुलायम सिंह यादव यह सभी उनकी पीठ थपथपाने वाले नेताओं को माफ नहीं करना चाहिए। जम्मू-कश्मीर में महबूबा मुफ्ती की हिम्मत कैसे हुई यह कहने की कि मैं तिरंगे को हाथ नहीं लगाऊंगी। महबूबा को देश में रहने का अधिकार नहीं है। कांग्रेस की पहचान विनाश की रही है और भाजपा की पहचान विकास की है। भाजपा विकास करके बताती है। कांग्रेस वही करती है, जिससे उनका घर और तिजोरी भरे। उन्हें प्रदेश और देश की चिंता नहीं है।   कांग्रेस को देश की जनता माफ नहीं करेगी   विजयवर्गीय ने कहा कि कांग्रेस के नेता राहुल गांधी कहते हैं कि चीन की सेना 1200 कि.मी. देश के अंदर आ गई। राहुल गांधी को कि.मी. इंच, फुट का भी ज्ञान नहीं है। अगर चीन की सेना 1200 कि.मी. अंदर आती तो दिल्ली तक आ जाती। राहुल गांधी ने देश की सेना का अपमान किया है। देश की जनता कभी माफ नहीं करेगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दुनिया में कहीं पर भी जाते हैं तो मोदी-मोदी के नाते लगते हैं। मोदी जी ने करोड़ों जनता का मान-सम्मान बढ़ाने का काम किया है। मोदी जी ने भारत को दुनिया के अंदर सक्षम देश बनाया है।    उन्होंने कहा कि देश की माताओं, बहनों की आंखों में खाना बनाते समय आंसू आते थे। उनके आंसू पोछने का काम गैस चूल्हा देकर उज्जवला योजना के माध्यम से प्रधानमंत्री मोदी ने किया। यही भाजपा का विकास और विचार है। मोदी जी ने किसी भी गरीब से भेदभाव नहीं किया। मोदी जी कहते हैं सबका साथ-सबका विकास और सबका विश्वास तो भाजपा ने सबका विश्वास जीतने का काम किया है। उन्होंने कहा कि यह उपचुनाव साधारण नहीं है,  यह मध्यप्रदेश के भविष्य का निर्धारण करेगा। इसलिए भाजपा को जिताने का संकल्प लें।

Dakhal News

Dakhal News 27 October 2020


rajgarh, Congress had made, temple democracy ,hub of corruption, Scindia

राजगढ़। कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने  15 माह तक लोकतंत्र का मंदिर कहे जाने वाले बल्लभ भवन को भ्रष्टाचार का अड्डा बना रखा था, वहां किसान के खुशहाल जीवन, नौजवानों के भविष्य, महिला और प्रदेश के विकास-प्रगति के बारे में विचार नहीं किया जाता था, वहां तो नोट कैसे कमाए जाए इसके बारे में मंथन किया जाता था। यह बात राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंगलवार को ब्यावरा के नगरपालिका काॅम्पलेक्स पर भाजपा प्रत्याशी नारायणसिंह पंवार के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कही।    उन्होंने कहा कि कमलनाथ और दिग्विजयसिंह की जोड़ी ने किसानों की खुशहाली, महिला और प्रदेश के नौजवानों के साथ वादाखिलाफी कर जो गद्दारी की है, ऐसी जोड़ी को ज्योतिरादित्य सिंधिया उखाड़ कर फैंक देगा। कांग्रेस की इस जोड़ी ने मध्यप्रदेश को भ्रष्टाचार का अड्डा बना दिया था। जब में कांग्रेस में था तो शिवराजसिंह से मेरी प्रतिस्पर्धा राजनीति, कुर्सी, लालबत्ती की नही थी, बल्कि प्रतिस्पर्धा थी तो वह विकास, प्रगति और संवेदनशीलता की थी।    उन्होंने कहा कि 2018 में हमने सोचा था कि विश्व स्तर के उद्योगपति है तो प्रदेश में नए-नए उद्योग और बाहर के लोग निवेश करेंगे, लेकिन यहां निवेश तो एक रुपया का नहीं, बल्कि नया उद्योग ट्रांसफर उद्योग, शराब कारोबर और अवैध रेत का उत्खनन का काम जोरों से शुरु हो गया। कमलनाथ और दिग्विजयसिंह को छोटा भाई और बड़ा भाई की संज्ञा देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री का मुखोटा कमलनाथ के चेहरे पर सजाया जाता है, लेकिन पर्दे के पीछे से रस्सिायां दिग्विजयसिंह खींचते है।    राज्यसभा सांसद ने कहा कि आपके पास दो विकल्प है एक तो बड़ेभाई और छोटे की जोड़ी और एक शिवराजसिंह और ज्योतिरादित्य की जोड़ी जो आपके लिए समर्पित है, नतमस्तक है साथ ही प्रदेश के विकास के लिए जी-जान लगाने वाली है। उन्होंने शायराना अंदाज में कहा कि न थके है पैर कभी, न कभी हिम्मत हारी है, जज्वात है जनसेवा का मन में, सफर निरंतर जारी है। इस मौके पर भाजपा प्रत्याशी नारायणसिंह पंवार ने कहा कि राजनीति में सहानुभूति का कोई स्थान नही है, जनता केवल विकास चाहती है और यह विकास भाजपा के कार्यकाल में ही संभव है। कार्यक्रम में सांसद रोड़मल नागर, भाजपा जिलाध्यक्ष दिलवर यादव, विधायक राजवर्धनसिंह , पूर्व मंत्री बद्रीलाल यादव, अमरसिंह यादव, हरीचरण तिवारी सहित अन्य भाजपा कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Dakhal News

Dakhal News 27 October 2020


bhopal, Try to get , place, top universities , country, Governor

भोपाल । राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने कहा है कि नवीन विश्वविद्यालय की भवन संरचनाओं को हाईराईज बनाया जाए। देश के शीर्ष विश्वविद्यालयों की सूची में स्थान के लिए प्रदेश के विश्वविद्यालयों को चिन्हित कर विशेष प्रयास हों। नवीन परियोजनाओं एवं नवाचार के लिए पी.पी.पी.टी. मॉडल और सी.एस.आर. फन्ड से व्यवस्थाएं करने के कार्यों पर बल दिया जाए। उक्‍त बातें राज्यपाल पटेल ने शनिवार को राजभवन में विश्‍वविद्यालय विकास के प्रयासों की समीक्षा करते हुए कही। बैठक में प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा अनुपम राजन और प्रमुख सचिव राजभवन डी.पी. आहूजा मौजूद रहे।   राज्‍यपाल आनंदी बेन पटेल ने राजभवन में उच्च शिक्षा में शैक्षणिक गुणवत्ता और प्रदेश के विश्वविद्यालयों के विकास संबंधी विभिन्न विषयों पर अधिकारियों और शासकीय विश्वविद्यालयों इंदौर और भोपाल के कुलपतियों के साथ चर्चा की। राज्यपाल ने कहा कि प्रदेश के विश्वविद्यालय देश के शीर्ष विश्वविद्यालयों की सूची में स्थान प्राप्त करने के प्रयास करें। इस कार्य में विश्वविद्यालय आवश्यक वित्तीय संसाधनों की आपूर्ति के लिए शासन पर निर्भर नहीं रहें। विश्वविद्यालय में उपलब्ध फन्ड का उपयोग करने के साथ ही पी.पी.पी.टी. मॉडल और कॉरपोरेट रिस्पाँसबिल्टी फन्ड के तहत औद्यौगिक प्रतिष्ठानों से वित्तीय सहयोग प्राप्त करने के कार्य करें।    उन्होंने कहा कि पी.पी.पी.टी. मॉडल के लिए नवोन्मेषी सोच के साथ प्रयास करना जरुरी है। लाभ-हानि के गणित में उलझने के बजाय छात्र हितों को सर्वोच्चता देते हुए, नवाचार के प्रयास करने होंगे। कुलपतियों को अपनी स्मृतियों को साझा करते हुए व्यवसायिक और वाणिज्यक संस्थाओं को विश्वविद्यालयों के साथ जोड़ने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने विश्वविद्यालय के निकटवर्ती औद्यौगिक इकाइयों के साथ समन्वय कर, उनकी अनुसंधान, मानव संसाधन, शैक्षणिक और प्रशिक्षण संबंधी आवश्यकताओं के साथ समन्वय कर विश्वविद्यालय के लिए आधुनिक प्रयोगात्मक, प्रशिक्षणात्मक संयत्रों और उपकरणों को प्राप्त करने की पहल की जरुरत बताई। उन्होंने औद्यौगिक प्रतिष्ठानों के साथ सतत् सम्पर्क और व्यावसायिक, वाणिज्यक, अनुसंधनात्मक और नवीन ज्ञान के साधन संसाधनों के लिए सी.एस.आर. मद से पर्याप्त धनराशि प्राप्त करने के लिए भी कहा। प्रतिष्ठानों के साथ निरंतर प्रभावी सम्पर्क और समन्वय बनाए रखने और निरंतर कोशिश करने की जरुरत बताई।   राज्यपाल ने कहा कि नये विश्वविद्यालयों की भवन संरचना को हाईराईज बनाया जाये। यह कार्य वर्तमान समय की आधुनिक निर्माण तकनीक पर्यावरण संरक्षण और वित्तीय संसाधनों की उपलब्धता के अनुसार किया जाना चाहिए। इस संबंध में राज्यशासन विश्वविद्यालय प्रबंधन विचार कर कार्य करें। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय के भवन को हाईराईज बना कर, उसमें सभी आधुनिक सुविधाएं, प्रकाश और हवा के समुचित प्रबंध किए जाएं। ऐसे भवनों के निर्माण से जहाँ पर्यावरण संरक्षण के लिए वृक्ष आच्छादन हेतु अतिरिक्त भूमि उपलब्ध होगी, वहीं अनावश्यक लिंक संबंधी व्यवस्थाओं सड़क, पेयजल आपूर्ति, बाउन्ड्री वाल निर्माण पर होने वाले व्यय में कमी होगी। संसाधनों के एकीकृत उपयोग से उनका अधिकतम और बेहतर उपयोग एवं प्रबंधन होगा।    उन्होंने शहरी अंचल में बनने वाले विश्वविद्यालयों के लिए 10 एकड़ और बाहरी क्षेत्र में बनने वाले विश्वविद्यालयों के लिए अधिकतम 100 एकड़ की भूमि सीमा निर्धारित करने पर विचार के लिए भी कहा है। उन्होंने विश्वविद्यालयों द्वारा बड़ी धनराशि फिक्स डिपॉजिट में रखे जाने पर चिंता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि आकस्मिक आवश्यकताओं के लिए नियत राशि को छोड़कर, शेष समस्त राशि का उपयोग विश्वविद्यालय की शैक्षणिक गुणवत्ता के कार्यों में किया जाए। विश्वविद्यालयों से इस संबंध में की जाने वाले कार्यों की आगामी तीन वर्षों की कार्ययोजना प्राप्त करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।   पटेल ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति के प्रावधानों को छात्रों के हित में अधिकतम उपयोग किया जाए। पूरे देश के सर्वश्रेष्ठ शिक्षकों के व्याख्यानों से विद्यार्थियों को लाभान्वित करने के लिए ऑनलाइन शिक्षण व्यवस्था को प्रसारित किया जाए। उन्होंने कर्मचारी पेंशन फंड के प्रबंधन पर भी विचार-विमर्श किया। फंड के उत्कृष्ट व्यावसायिक विशेषज्ञता के साथ संचालित किए जाने की जरुरत बताई। निर्देश दिए कि इस कार्य की समीक्षा और प्रभावी कारवाई के लिए समन्वय समिति बनाई जाए, जो फन्ड के लिए आवश्यक राशि की आपूर्ति की व्यवस्था को सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि सुगनीदेवी शासकीय महाविद्यालय के प्रबंधन के लिए आकस्मिकता के दृष्टिगत इंदौर विश्वविद्यालय द्वारा दी गई शासकीय अनुदान की राशि की प्रतिपूर्ति के संबंध में उच्च शिक्षा विभाग जरूरी कार्रवाई करे। बैठक में अपर सचिव राजभवन राजेश कुमार कौल, कुलपति अहिल्या देवी विश्वविद्यालय इंदौर रेणु जैन और कुलपति बरकतउल्ला विश्वविद्यालय भोपाल आर.जे. राव भी उपस्थित रहे।

Dakhal News

Dakhal News 24 October 2020


bhopal, Try to get , place, top universities , country, Governor

भोपाल । राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने कहा है कि नवीन विश्वविद्यालय की भवन संरचनाओं को हाईराईज बनाया जाए। देश के शीर्ष विश्वविद्यालयों की सूची में स्थान के लिए प्रदेश के विश्वविद्यालयों को चिन्हित कर विशेष प्रयास हों। नवीन परियोजनाओं एवं नवाचार के लिए पी.पी.पी.टी. मॉडल और सी.एस.आर. फन्ड से व्यवस्थाएं करने के कार्यों पर बल दिया जाए। उक्‍त बातें राज्यपाल पटेल ने शनिवार को राजभवन में विश्‍वविद्यालय विकास के प्रयासों की समीक्षा करते हुए कही। बैठक में प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा अनुपम राजन और प्रमुख सचिव राजभवन डी.पी. आहूजा मौजूद रहे।   राज्‍यपाल आनंदी बेन पटेल ने राजभवन में उच्च शिक्षा में शैक्षणिक गुणवत्ता और प्रदेश के विश्वविद्यालयों के विकास संबंधी विभिन्न विषयों पर अधिकारियों और शासकीय विश्वविद्यालयों इंदौर और भोपाल के कुलपतियों के साथ चर्चा की। राज्यपाल ने कहा कि प्रदेश के विश्वविद्यालय देश के शीर्ष विश्वविद्यालयों की सूची में स्थान प्राप्त करने के प्रयास करें। इस कार्य में विश्वविद्यालय आवश्यक वित्तीय संसाधनों की आपूर्ति के लिए शासन पर निर्भर नहीं रहें। विश्वविद्यालय में उपलब्ध फन्ड का उपयोग करने के साथ ही पी.पी.पी.टी. मॉडल और कॉरपोरेट रिस्पाँसबिल्टी फन्ड के तहत औद्यौगिक प्रतिष्ठानों से वित्तीय सहयोग प्राप्त करने के कार्य करें।    उन्होंने कहा कि पी.पी.पी.टी. मॉडल के लिए नवोन्मेषी सोच के साथ प्रयास करना जरुरी है। लाभ-हानि के गणित में उलझने के बजाय छात्र हितों को सर्वोच्चता देते हुए, नवाचार के प्रयास करने होंगे। कुलपतियों को अपनी स्मृतियों को साझा करते हुए व्यवसायिक और वाणिज्यक संस्थाओं को विश्वविद्यालयों के साथ जोड़ने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने विश्वविद्यालय के निकटवर्ती औद्यौगिक इकाइयों के साथ समन्वय कर, उनकी अनुसंधान, मानव संसाधन, शैक्षणिक और प्रशिक्षण संबंधी आवश्यकताओं के साथ समन्वय कर विश्वविद्यालय के लिए आधुनिक प्रयोगात्मक, प्रशिक्षणात्मक संयत्रों और उपकरणों को प्राप्त करने की पहल की जरुरत बताई। उन्होंने औद्यौगिक प्रतिष्ठानों के साथ सतत् सम्पर्क और व्यावसायिक, वाणिज्यक, अनुसंधनात्मक और नवीन ज्ञान के साधन संसाधनों के लिए सी.एस.आर. मद से पर्याप्त धनराशि प्राप्त करने के लिए भी कहा। प्रतिष्ठानों के साथ निरंतर प्रभावी सम्पर्क और समन्वय बनाए रखने और निरंतर कोशिश करने की जरुरत बताई।   राज्यपाल ने कहा कि नये विश्वविद्यालयों की भवन संरचना को हाईराईज बनाया जाये। यह कार्य वर्तमान समय की आधुनिक निर्माण तकनीक पर्यावरण संरक्षण और वित्तीय संसाधनों की उपलब्धता के अनुसार किया जाना चाहिए। इस संबंध में राज्यशासन विश्वविद्यालय प्रबंधन विचार कर कार्य करें। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय के भवन को हाईराईज बना कर, उसमें सभी आधुनिक सुविधाएं, प्रकाश और हवा के समुचित प्रबंध किए जाएं। ऐसे भवनों के निर्माण से जहाँ पर्यावरण संरक्षण के लिए वृक्ष आच्छादन हेतु अतिरिक्त भूमि उपलब्ध होगी, वहीं अनावश्यक लिंक संबंधी व्यवस्थाओं सड़क, पेयजल आपूर्ति, बाउन्ड्री वाल निर्माण पर होने वाले व्यय में कमी होगी। संसाधनों के एकीकृत उपयोग से उनका अधिकतम और बेहतर उपयोग एवं प्रबंधन होगा।    उन्होंने शहरी अंचल में बनने वाले विश्वविद्यालयों के लिए 10 एकड़ और बाहरी क्षेत्र में बनने वाले विश्वविद्यालयों के लिए अधिकतम 100 एकड़ की भूमि सीमा निर्धारित करने पर विचार के लिए भी कहा है। उन्होंने विश्वविद्यालयों द्वारा बड़ी धनराशि फिक्स डिपॉजिट में रखे जाने पर चिंता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि आकस्मिक आवश्यकताओं के लिए नियत राशि को छोड़कर, शेष समस्त राशि का उपयोग विश्वविद्यालय की शैक्षणिक गुणवत्ता के कार्यों में किया जाए। विश्वविद्यालयों से इस संबंध में की जाने वाले कार्यों की आगामी तीन वर्षों की कार्ययोजना प्राप्त करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।   पटेल ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति के प्रावधानों को छात्रों के हित में अधिकतम उपयोग किया जाए। पूरे देश के सर्वश्रेष्ठ शिक्षकों के व्याख्यानों से विद्यार्थियों को लाभान्वित करने के लिए ऑनलाइन शिक्षण व्यवस्था को प्रसारित किया जाए। उन्होंने कर्मचारी पेंशन फंड के प्रबंधन पर भी विचार-विमर्श किया। फंड के उत्कृष्ट व्यावसायिक विशेषज्ञता के साथ संचालित किए जाने की जरुरत बताई। निर्देश दिए कि इस कार्य की समीक्षा और प्रभावी कारवाई के लिए समन्वय समिति बनाई जाए, जो फन्ड के लिए आवश्यक राशि की आपूर्ति की व्यवस्था को सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि सुगनीदेवी शासकीय महाविद्यालय के प्रबंधन के लिए आकस्मिकता के दृष्टिगत इंदौर विश्वविद्यालय द्वारा दी गई शासकीय अनुदान की राशि की प्रतिपूर्ति के संबंध में उच्च शिक्षा विभाग जरूरी कार्रवाई करे। बैठक में अपर सचिव राजभवन राजेश कुमार कौल, कुलपति अहिल्या देवी विश्वविद्यालय इंदौर रेणु जैन और कुलपति बरकतउल्ला विश्वविद्यालय भोपाल आर.जे. राव भी उपस्थित रहे।

Dakhal News

Dakhal News 24 October 2020


bhopal, Narottam

भोपाल। मध्यप्रदेश में विधानसभा की 28 सीटों पर हो रहे उपचुनाव को लेकर दोनों प्रमुख पार्टियों भाजपा और कांग्रेस के नेता एक-दूसरे पर जमकर निशाना साध रहे हैं। इसी क्रम में प्रदेश के गृह मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस द्वारा पूर्व सीएम कमलनाथ को भावी मुख्यमंत्री बताने वाले एक ट्वीट पर पलटवार किया है। उन्होंने शायराना अंदाज में कांग्रेस को सलाह दी है कि सरकार बनाने का ख्वाब छोडक़र वह भावी नेता प्रतिपक्ष की खोज में जुट जाए।    दरअसल, कांग्रेस ने शनिवार को ट्वीट के माध्यम से पूर्व सीएम एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ को भावी मुख्यमंत्री बताते हुए लिखा है कि -‘भावी मुख्यमंत्री कमलनाथ जी आज भिंड जिले की मेहगांव सीट से प्रत्याशी हेमंत कटारे के समर्थन में जनसभा करेंगे।’ गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने इस ट्वीट का शायराना अंदाज में जवाब देते हुए कांग्रेस पर पलटवार किया है। उन्होंने ट्वीट के माध्यम से कहा है कि -‘हमको मालूम है जन्नत की हकीकत, लेकिन दिल बहलाने के लिए गालिब, ये खयाल अच्छा है। हकीकत ये है कि 03 नवंबर को जनता कमलनाथ जी को बोरिया बिस्तर बांधकर हमेशा के लिए विदा कर देगी। मेरी नेक सलाह है कि कांग्रेस, सरकार बनाने का ख्वाब छोडक़र भावी नेता प्रतिपक्ष की खोज में जुट जाए।

Dakhal News

Dakhal News 24 October 2020


bhopal, Narottam

भोपाल। मध्यप्रदेश में विधानसभा की 28 सीटों पर हो रहे उपचुनाव को लेकर दोनों प्रमुख पार्टियों भाजपा और कांग्रेस के नेता एक-दूसरे पर जमकर निशाना साध रहे हैं। इसी क्रम में प्रदेश के गृह मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस द्वारा पूर्व सीएम कमलनाथ को भावी मुख्यमंत्री बताने वाले एक ट्वीट पर पलटवार किया है। उन्होंने शायराना अंदाज में कांग्रेस को सलाह दी है कि सरकार बनाने का ख्वाब छोडक़र वह भावी नेता प्रतिपक्ष की खोज में जुट जाए।    दरअसल, कांग्रेस ने शनिवार को ट्वीट के माध्यम से पूर्व सीएम एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ को भावी मुख्यमंत्री बताते हुए लिखा है कि -‘भावी मुख्यमंत्री कमलनाथ जी आज भिंड जिले की मेहगांव सीट से प्रत्याशी हेमंत कटारे के समर्थन में जनसभा करेंगे।’ गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने इस ट्वीट का शायराना अंदाज में जवाब देते हुए कांग्रेस पर पलटवार किया है। उन्होंने ट्वीट के माध्यम से कहा है कि -‘हमको मालूम है जन्नत की हकीकत, लेकिन दिल बहलाने के लिए गालिब, ये खयाल अच्छा है। हकीकत ये है कि 03 नवंबर को जनता कमलनाथ जी को बोरिया बिस्तर बांधकर हमेशा के लिए विदा कर देगी। मेरी नेक सलाह है कि कांग्रेस, सरकार बनाने का ख्वाब छोडक़र भावी नेता प्रतिपक्ष की खोज में जुट जाए।

Dakhal News

Dakhal News 24 October 2020


bhopal, Narottam

भोपाल। मध्यप्रदेश में विधानसभा की 28 सीटों पर हो रहे उपचुनाव को लेकर दोनों प्रमुख पार्टियों भाजपा और कांग्रेस के नेता एक-दूसरे पर जमकर निशाना साध रहे हैं। इसी क्रम में प्रदेश के गृह मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस द्वारा पूर्व सीएम कमलनाथ को भावी मुख्यमंत्री बताने वाले एक ट्वीट पर पलटवार किया है। उन्होंने शायराना अंदाज में कांग्रेस को सलाह दी है कि सरकार बनाने का ख्वाब छोडक़र वह भावी नेता प्रतिपक्ष की खोज में जुट जाए।    दरअसल, कांग्रेस ने शनिवार को ट्वीट के माध्यम से पूर्व सीएम एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ को भावी मुख्यमंत्री बताते हुए लिखा है कि -‘भावी मुख्यमंत्री कमलनाथ जी आज भिंड जिले की मेहगांव सीट से प्रत्याशी हेमंत कटारे के समर्थन में जनसभा करेंगे।’ गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने इस ट्वीट का शायराना अंदाज में जवाब देते हुए कांग्रेस पर पलटवार किया है। उन्होंने ट्वीट के माध्यम से कहा है कि -‘हमको मालूम है जन्नत की हकीकत, लेकिन दिल बहलाने के लिए गालिब, ये खयाल अच्छा है। हकीकत ये है कि 03 नवंबर को जनता कमलनाथ जी को बोरिया बिस्तर बांधकर हमेशा के लिए विदा कर देगी। मेरी नेक सलाह है कि कांग्रेस, सरकार बनाने का ख्वाब छोडक़र भावी नेता प्रतिपक्ष की खोज में जुट जाए।

Dakhal News

Dakhal News 24 October 2020


rajgarh, Look ,who has developed,hand ,his heart, Narendra Singh Tomar

राजगढ़। दिल पर हाथ रखकर देखो किसने विकास किया है, फिर वोट दो, आपका एक वोट प्रदेश में शिवराज सरकार को स्थायित्व और केन्द्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार को ताकत देगा, जिससे भारत दुनिया का श्रेष्ठ राष्ट्र बनेगा। यह बात गुरुवार को केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्रसिंह तोमर ने सुठालिया में भाजपा प्रत्याशी नारायणसिंह पंवार के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कही।    उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस ने दशकों तक शासन किया लेकिन विकास के नाम पर क्या हुआ सबने देखा। आपका एक वोट बहुमूल्य है, जो प्रदेश में शिवराज सरकार को स्थायित्व देगा साथ ही केन्द्र में नरेन्द्र मोदी सरकार को ताकत देगा। उन्होंने बताया कि कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए कार्यकर्ताओं से पूछा गया कि कांग्रेस और भाजपा में क्या फर्क है तो उनका कहना था कि कांग्रेस में उनके मन में तो राम होते थे,पर उन्हें मुंह से राम का जयकारा लगाने की इजाजत नही होती और भाजपा में मन में भी राम और मुंह पर भी राम है। कांग्रेस में जिस तरह से परिवार, भाई-भतीजावाद हावी है, उसके उलट में भाजपा में इसका कोई स्थान नही है।     उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार देश के मान-सम्मान को बढ़ाने में लगी है, दुनिया में आज भारत एक श्रेष्ठ राष्ट्र के रुप में उभरकर सामने आया है। इस मौके पर सांसद रोड़मल नागर, भाजपा जिलाध्यक्ष दिलवर यादव, विधायक राजवर्धनसिंह, पूर्व विधायक रघुनंदन शर्मा, हरीचरण तिवारी सहित अन्य भाजपा कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Dakhal News

Dakhal News 22 October 2020


bhopal, agriculture minister, hit back , Digvijay, Mr. Bandadhar, crocodile tears

भोपाल। मध्य प्रदेश में विधानसभा उपचुनाव के बीच पूर्व सीएम और कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर किसानों का मुद्दा उठाते हुए यूरिया और डीएपी खाद उपलब्ध कराने और कालाबाजारी रोकने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज को पत्र लिखा है। दिग्विजय के इस पत्र पर पलटवार करते हुए प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल ने उन्हें पत्र लिखकर जवाब दिया है। साथ ही दिग्विजय सिंह को मिस्टर बंटाधार संबोधित करते हुए कृषि मंत्री ने तंज कसते हुए कहा है कि आपका पत्र पढक़र ऐसा महसूस हो रहा है कि जैसे ‘नौ सौ चूहे खाकर दिल्ली हज को चली’। जिस व्यक्ति ने स्वयं मुख्यमंत्री रहते हुए पूरे प्रदेश का बंटाधार कर दिया है। वही मिस्टर बंटाधार अब किसानों की समस्याओं का झूठा रोना रोकर उनके लिए घडिय़ाली आंसू बहाने का नाटक कर रहे हैं।   दिग्विजय सिंह को लिखे अपने पत्र में कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा है कि आपके पत्र में क्योंकि किसानों से जुड़े विषयों की चर्चा की गई है। इसलिए मुझे लगता है कि प्रदेश के कृषि मंत्री होने के नाते आपको सही और तथ्यात्मक जानकारियों से अवगत करा देना चाहिए। भारत सरकार द्वारा रबी 2020- 21 के लिए पिछले वर्ष वितरित किए गए यूरिया की तुलना में 4.12 लाख मैट्रिक टन यूरिया का अबंटन अधिक किया गया है। रबी 2019-20 में 17.88 लाख मैट्रिक टन यूरिया वितरित किया गया था। जबकि इस वर्ष 22 लाख मैट्रिक टन का आबंटन भारत सरकार द्वारा दिया गया है। आपको यह भी जानना चाहिए कि 1 अक्टूबर से 21 अक्टूबर तक 3.60 लाख मैट्रिक टन यूरिया टांजिस्ट सहित प्राप्त हो गया है। जबकि पिछले वर्षे इसी अवधि में मात्र 2.07 लाख मैट्रिक टन यूरिया प्राप्त हुआ था। इसी प्रकार अक्टूबर माह के लिए भारत सरकार ने 5.02 लाख मैट्रिक टन का आबंटन किया है। जबकि पिछले वर्ष अक्टूबर 2019 में 2.89 लाख मैट्रिक टन यूरिया ही प्राप्त हुआ था। जिस प्रकार पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष अक्टूबर महा के लिए हमें 2.13 लाख मैट्रिक टन अधिक आतंटन किया गया है। यदि डीएपी के मामले में देखें तो वर्तमान में 3.34 लाख मैट्रिक टन की उपलब्धता है तथा 1 अक्टूबर से अभी तक 0.84 लाख मैट्रिक टन डीएपी का वितरण किया गया है जबकि पिछले वर्ष इसी अवधि में मात्र 0.46 लाख मैट्रिक टन डीएपी वितरित किया गया था। इस प्रकार पिछले वर्ष की तुलना में इसी अवधि में डीएपी वितरण लगभग 2 गुना पहुंच रहा है। कृषि मंत्री ने पत्र के माध्यम से दिग्विजय सिंह को बताया है कि प्रदेश में कही भी यूरिया और डीएपी की समस्या नहीं है। यूरिया प्रदाय पर किसी प्रकार का बंधन नहीं लगाया गया है। प्रदेश में सहकारी समितियों से उनकी मांग के अनुसार यूरिया और डीएपी दिया जा रहा है। इसलिए माननीय दिग्विजय सिंह मेरा आपसे अनुरोध है कि आप अनावश्यक रुप से प्रदेश की किसान हितैषी शिवराज सरकार और किसानों के बीच घुसने की कोशिश न करें। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से अधिक किसान हितों के बारे में सोचने वाला और कोई नहीं हो सकता है। आप की सरकार ने तो किसानों को पहले ऋण माफी का झूठा वादा किया, उसके बाद प्रधानमंत्री फसल बीमा का प्रीमियम भी जमा नहीं किया। जिससे प्रदेश का किसान मारा मारा फिरता रहा। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का 22 सौ करोड़ रुपए शिवराज सिंह ने जमा करवाया। जिसकी वजह से किसानों के 31 सौ करोड़ रुपए की बीमा राशि का भुगतान संभव हो सका।   मंत्री पटेल ने भाजपा सरकार को किसान हितैषी बताते हुए कहा कि इस वर्ष भी प्रधानमंत्री फसल बीमा की 4 हजार 6 सौ 88 करोड़ की बीमा राशि 22 लाख किसानों को हम वितरित कर रहे हैं। अतिवृष्टि, कीटव्याधि इत्यादि से हुए फसल नुकसान के लिए 4 हजार करोड़ रुपए की राहत राशि किसानों को देने जा रहे हैं। इसलिए आपसे मेरा अनुरोध है कि किसानों और प्रदेश के लोगों की जितनी चिंता भाजपा की सरकार को है, उतनी चिंता के बारे में आप कभी सोच भी नहीं सकते हैं। इसलिए आप और कांग्रेस पार्टी किसानों के लिए दिखावा करना बंद कर दें। किसान आपकों बेहतर ढंग से जान चुके हैं।

Dakhal News

Dakhal News 22 October 2020


bhopal, agriculture minister, hit back , Digvijay, Mr. Bandadhar, crocodile tears

भोपाल। मध्य प्रदेश में विधानसभा उपचुनाव के बीच पूर्व सीएम और कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर किसानों का मुद्दा उठाते हुए यूरिया और डीएपी खाद उपलब्ध कराने और कालाबाजारी रोकने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज को पत्र लिखा है। दिग्विजय के इस पत्र पर पलटवार करते हुए प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल ने उन्हें पत्र लिखकर जवाब दिया है। साथ ही दिग्विजय सिंह को मिस्टर बंटाधार संबोधित करते हुए कृषि मंत्री ने तंज कसते हुए कहा है कि आपका पत्र पढक़र ऐसा महसूस हो रहा है कि जैसे ‘नौ सौ चूहे खाकर दिल्ली हज को चली’। जिस व्यक्ति ने स्वयं मुख्यमंत्री रहते हुए पूरे प्रदेश का बंटाधार कर दिया है। वही मिस्टर बंटाधार अब किसानों की समस्याओं का झूठा रोना रोकर उनके लिए घडिय़ाली आंसू बहाने का नाटक कर रहे हैं।   दिग्विजय सिंह को लिखे अपने पत्र में कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा है कि आपके पत्र में क्योंकि किसानों से जुड़े विषयों की चर्चा की गई है। इसलिए मुझे लगता है कि प्रदेश के कृषि मंत्री होने के नाते आपको सही और तथ्यात्मक जानकारियों से अवगत करा देना चाहिए। भारत सरकार द्वारा रबी 2020- 21 के लिए पिछले वर्ष वितरित किए गए यूरिया की तुलना में 4.12 लाख मैट्रिक टन यूरिया का अबंटन अधिक किया गया है। रबी 2019-20 में 17.88 लाख मैट्रिक टन यूरिया वितरित किया गया था। जबकि इस वर्ष 22 लाख मैट्रिक टन का आबंटन भारत सरकार द्वारा दिया गया है। आपको यह भी जानना चाहिए कि 1 अक्टूबर से 21 अक्टूबर तक 3.60 लाख मैट्रिक टन यूरिया टांजिस्ट सहित प्राप्त हो गया है। जबकि पिछले वर्षे इसी अवधि में मात्र 2.07 लाख मैट्रिक टन यूरिया प्राप्त हुआ था। इसी प्रकार अक्टूबर माह के लिए भारत सरकार ने 5.02 लाख मैट्रिक टन का आबंटन किया है। जबकि पिछले वर्ष अक्टूबर 2019 में 2.89 लाख मैट्रिक टन यूरिया ही प्राप्त हुआ था। जिस प्रकार पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष अक्टूबर महा के लिए हमें 2.13 लाख मैट्रिक टन अधिक आतंटन किया गया है। यदि डीएपी के मामले में देखें तो वर्तमान में 3.34 लाख मैट्रिक टन की उपलब्धता है तथा 1 अक्टूबर से अभी तक 0.84 लाख मैट्रिक टन डीएपी का वितरण किया गया है जबकि पिछले वर्ष इसी अवधि में मात्र 0.46 लाख मैट्रिक टन डीएपी वितरित किया गया था। इस प्रकार पिछले वर्ष की तुलना में इसी अवधि में डीएपी वितरण लगभग 2 गुना पहुंच रहा है। कृषि मंत्री ने पत्र के माध्यम से दिग्विजय सिंह को बताया है कि प्रदेश में कही भी यूरिया और डीएपी की समस्या नहीं है। यूरिया प्रदाय पर किसी प्रकार का बंधन नहीं लगाया गया है। प्रदेश में सहकारी समितियों से उनकी मांग के अनुसार यूरिया और डीएपी दिया जा रहा है। इसलिए माननीय दिग्विजय सिंह मेरा आपसे अनुरोध है कि आप अनावश्यक रुप से प्रदेश की किसान हितैषी शिवराज सरकार और किसानों के बीच घुसने की कोशिश न करें। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से अधिक किसान हितों के बारे में सोचने वाला और कोई नहीं हो सकता है। आप की सरकार ने तो किसानों को पहले ऋण माफी का झूठा वादा किया, उसके बाद प्रधानमंत्री फसल बीमा का प्रीमियम भी जमा नहीं किया। जिससे प्रदेश का किसान मारा मारा फिरता रहा। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का 22 सौ करोड़ रुपए शिवराज सिंह ने जमा करवाया। जिसकी वजह से किसानों के 31 सौ करोड़ रुपए की बीमा राशि का भुगतान संभव हो सका।   मंत्री पटेल ने भाजपा सरकार को किसान हितैषी बताते हुए कहा कि इस वर्ष भी प्रधानमंत्री फसल बीमा की 4 हजार 6 सौ 88 करोड़ की बीमा राशि 22 लाख किसानों को हम वितरित कर रहे हैं। अतिवृष्टि, कीटव्याधि इत्यादि से हुए फसल नुकसान के लिए 4 हजार करोड़ रुपए की राहत राशि किसानों को देने जा रहे हैं। इसलिए आपसे मेरा अनुरोध है कि किसानों और प्रदेश के लोगों की जितनी चिंता भाजपा की सरकार को है, उतनी चिंता के बारे में आप कभी सोच भी नहीं सकते हैं। इसलिए आप और कांग्रेस पार्टी किसानों के लिए दिखावा करना बंद कर दें। किसान आपकों बेहतर ढंग से जान चुके हैं।

Dakhal News

Dakhal News 22 October 2020


bhopal, BJP leaders, including Chief Minister, congratulate Union, Home Minister, Amit Shah

भोपाल। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज (गुरुवार को) अपना 56वां जन्मदिन मना रहे हैं। उनका जन्म 22 अक्टूबर 1964 को मुम्बई में हुआ था। जन्मदिन के अवसर पर उन्हें सभी बधाई और शुभकामनाएं दे रहे हैं। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत अन्य भाजपा नेताओं ने भी उन्हें जन्मदिन की हार्दिक बधाई दी है।   मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट करते हुए कहा कि -‘कुशल संगठक, श्रेष्ठ रणनीतिकार, अद्वितीय राजनीतिक प्रतिभा के धनी, केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह जी को जन्मदिन की आत्मीय बधाई। आपके कुशल नेतृत्व में भारत की सुरक्षा उत्तरोत्तर मजबूत हुई है। आप स्वस्थ रहें और शतायु हों, ताकि यह देश यूं ही सदैव सुरक्षित रहे। उन्होंने अलगे ट्वीट में लिखा है कि -‘माननीय अमित शाह जी आपने धारा 370 व तीन तलाक को हटाने और राम मंदिर के निर्माण का मार्ग प्रशस्त करने में जो योगदान दिया है, उसे देश ने देखा है। ऐसे असंभव समझे जाने वाले कार्य आप जैसे साहसी नेता ही कर सकते हैं। भगवान श्रीराम आपके यश और जीवन को सतत बढ़ायें, यही कामना।’   वहीं, प्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने ट्वीट के माध्यम से केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह को बधाई देते हुए कहा है कि - ‘देश की एकता और अखंडता के लिए जरूरी कई ऐतिहासिक और साहसिक फैसले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह जी की दृढ़ इच्छाशक्ति और संकल्प से ही संभव हुए हैं। मां जगदम्बा से आपके जीवन में यश और कीर्ति की श्रीवृद्धि की कामना करता हूँ।’ अमित शाह जी को जन्मदिन की शुभकामनाएं।’   भाजपा के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी ट्वीट के माध्यम से अपने बधाई संदेश में कहा है कि दृढ़ इच्छा शक्ति के प्रतीक, राष्ट्र की सेवा में समर्पित देश के गृह मंत्री श्री अमित शाह जी को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं। ईश्वर से आपके उत्तम स्वास्थ्य, दीर्घायु और यशस्वी जीवन की कामना करता हूँ।’   भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने ट्वीट करते हुए कहा है कि - ‘देश के यशस्वी गृहमंत्री, भाजपा के वरिष्ठ नेता व करोड़ों कार्यकर्ताओं के प्रेरणास्रोत आदरणीय श्री अमित शाह जी को जन्मदिन की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं। ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि आप हमेशा स्वस्थ एवं दीर्घायु रहें।’

Dakhal News

Dakhal News 22 October 2020


guna, Kamal Nath, government locks, schemes, we opened ,Scindia

गुना। पूर्व केन्द्रीय एवं सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा है कि लोग राजनीति पद और सम्मान के लिए करते हैं, लेकिन उनका क्षेत्र के लोगों से पारिवारिक रिश्ता है और उनका पूरा जीवन क्षेत्र के विकास और खुशहाली के लिए है। यह बातें उन्होंने बमौरी विधानसभा के भाजपा प्रत्याशी महेन्द्र सिंह सिसौदिया के पक्ष में मंगलवार को बमौरी के टकनेरा में आमसभा को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि अपने 20 साल के राजनैतिक कार्यकाल में क्षेत्र की जनता को नेशनल हाईवे पर फोरलेन की सुविधा से लेकर बमौरी के गांव-गांव में सडक़ों का जाल बिछाया है। चाहे मोबाइल टॉवर की सुविधा हो या फिर बिजली के ट्रांसफार्मर किसी भी चीज में क्षेत्र की जनता के लिए कमी नहीं छोड़ी।    अब आ रहे हैं प्रवासी पक्षी   सिंधिया ने कहा कि जो लोग कांग्रेस की तरफ से वोट मांगने आ रहे हैं, वह प्रवासी पक्षी की तरह हैं जो जिन्होंने कभी भी बमौरी के विकास के बारे में नहीं सोचा। जो मुख्यमंत्री रहते कभी बमौरी नहीं आए अब वह बमौरी जनता का वोट मांगने आ रहे हैं। जनता उनको जबाव देगी। उन्होंने कमलनाथ पर हमला करते हुए कहा कि यहां के विधायक और मंत्री महेन्द्र सिंह सिसौदिया ने ग्वारखेड़ा बांध की मांग की तो कह दिया कि पैसा नही है। लेकिन वहीं बांध मैंने और शिवराज सिंह चौहान ने क्षेत्र की खुशहाली के लिए खोल दिए। उन्होंने कहा कि कमलनाथ ने शिवराज सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को लॉक कर दिया था। लेकिन उन्होंने और शिवराज ने जनता के हितों के लिए दिल की चाबी से खोल दिए। उन्होंने कहा कि बमौरी क्षेत्र मेें शुद्ध पेयजल के लिए 497 करोड़ की योजना मंजूर की गई है, जिसका पानी गोपीकृष्ण सागर बांध से गांव-गांव में जाएगा।    जनता का अपमान करने वालों को सबक सिखाएं   सिंधिया ने कहा कि कमलनाथ और दिग्विजय सिंह चुनाव के समय पर्दे के पीछे हो जाते हैं।  सत्ता आने  के बाद एक पर्दे के पीछे और एक सामने सरकार चलाते हैं। उन पर गरीबों के लिए पैसा नही होता, लेकिन खुद करोड़ों, अरबों रुपए कमाते हैं। जनता से वादाखिलाफी करने वालों को सिंधिया परिवार कभी नहीं छोड़ता। 50 साल पहले जनता का अपमान करने वाली सरकार को मेरी दादी ने गिराया था, और अब जनता से वादाखिलाफी करने वाले कमलनाथ सरकार को मैंने धूल चटाई हैं।    झलकियां   सभा के दौरान सिंधिया ने कमलनाथ और दिग्विजय सिंह की जमकर नकल उतारी जिस पर जनता ने खूब ताली ठोकीं। सभा में भाजपा जिलाध्यक्ष गजेन्द्र सिंह सिकरवार मंच पर नहीं पहुंचे तो सिंधिया ने जनता के बीच खड़े देखकर संबोधित किया। सिंधिया सभा के बाद जनता के बीच में गए और महिलाओं से बातचीत की। एक महिला ने बताया कि वह बीमार है और इलाज कराना चाहती है। इस पर सिंधिया ने उसे अपना मोबाइल नंबर दिया।    

Dakhal News

Dakhal News 20 October 2020


anuppur, Returning officer, served notice ,disputed statement ,ood Minister

अनूपपुर। प्रदेश के खाद्य मंत्री एवं भाजपा उम्मीदवार बिसाहूलाल सिंह के विवादित बयान को गंभीर से लेते हुए मंगलवार को रिटर्निंग अधिकारी ने उन्हें नोटिस जारी कर 24 घंटे में जवाब मांगा है।   दरअसल, सोमवार को भाजपा उम्मीदवार बिसाहूलाल सिंह ने कांग्रेस उम्मीदवार विश्वनाथ सिंह की पत्नी को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी, साथ ही  जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष को चुनाव समाप्त होने के बाद देख लेने की भी बात कही है। जिसे मीडिया ने प्रमुखता से प्रकाशित-प्रसारित किया था। मीडिया में बयान आने के बाद ही रिटर्निंग अधिकारी ने भाजपा उम्मीदवार को नोटिस जारी कर 24 घण्टे के अंदर जवाब मांगा गया है।

Dakhal News

Dakhal News 20 October 2020


indore, BJP

इंदौर। मप्र के पूर्व सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ प्रदेश की मंत्री इमरती देवी के लिए अभद्र टिप्पणी करने के बाद भाजपा के निशाने पर आ गए हैं। सोमवार को प्रदेश भर में भाजपा ने मौत व्रत रखकर कमलनाथ के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराया। वहीं मंगलवार को इंदौर में एक अलग ही नजारा देखने को मिला। यहां भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा ने अनूठा प्रदर्शन किया, जिसमें कमलनाथ आईटम सांग पर ठूमके लगाते हुए तो दिग्विजय सिंह उन्हें दाद देते हुए नजर आए।   दरअसल मंगलवार को भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा इंदौर द्वारा कलेक्टर चौराहा पर कमलनाथ के डमी रूप को आयटम गर्ल बनाकर आयटम सांग पर डांस करवाकर दिग्विजयसिंह द्वारा दाद दिलवाकर विरोध प्रदर्शन किया। भाजपा कार्यकर्ता मुन्नी बदनाम हुई और तेरी आख्या का यो काजल जैसे आयटम नम्बर गा रहे है, वही कांग्रेस के दो पूर्व सीएम के डमी अवतार उन गानों पर नाच रहे है। इस दौरान मोर्चा कार्यकर्ताओं ने जमकर कमलनाथ और उनकी भाषाशैली के खिलाफ जमकर नारे भी लगाए।    भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के नगर अध्यक्ष ने बताया कि इस तरह से विरोध करना भाजपा की पद्धति नही है, लेकिन कुत्ता काटे तो उसे काट नही सकते लेकिन डंडे से तो पीटा जा सकता है। वही राजेश शिरोडक़र ने कहा कि आपकी नजर में प्रदेश की मंत्री आयटम है तो फिर प्रियंका गांधी और सोनिया गांधी क्या है जरा ये भी बताए।    गौरतलब है कि कमलनाथ द्वारा डबरा में बिना नाम लिए इमारती देवी को आयटम कहने के मामले में विरोध प्रदर्शन का दौर लगातार जारी है। फिलहाल, प्रदेश में आयटम शब्द पर बवाल मचा हुआ है और भाजपा मुखर होकर पूर्व सीएम कमलनाथ के बयान का विरोध कर रही है।

Dakhal News

Dakhal News 20 October 2020


indore, BJP

इंदौर। मप्र के पूर्व सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ प्रदेश की मंत्री इमरती देवी के लिए अभद्र टिप्पणी करने के बाद भाजपा के निशाने पर आ गए हैं। सोमवार को प्रदेश भर में भाजपा ने मौत व्रत रखकर कमलनाथ के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराया। वहीं मंगलवार को इंदौर में एक अलग ही नजारा देखने को मिला। यहां भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा ने अनूठा प्रदर्शन किया, जिसमें कमलनाथ आईटम सांग पर ठूमके लगाते हुए तो दिग्विजय सिंह उन्हें दाद देते हुए नजर आए।   दरअसल मंगलवार को भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा इंदौर द्वारा कलेक्टर चौराहा पर कमलनाथ के डमी रूप को आयटम गर्ल बनाकर आयटम सांग पर डांस करवाकर दिग्विजयसिंह द्वारा दाद दिलवाकर विरोध प्रदर्शन किया। भाजपा कार्यकर्ता मुन्नी बदनाम हुई और तेरी आख्या का यो काजल जैसे आयटम नम्बर गा रहे है, वही कांग्रेस के दो पूर्व सीएम के डमी अवतार उन गानों पर नाच रहे है। इस दौरान मोर्चा कार्यकर्ताओं ने जमकर कमलनाथ और उनकी भाषाशैली के खिलाफ जमकर नारे भी लगाए।    भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के नगर अध्यक्ष ने बताया कि इस तरह से विरोध करना भाजपा की पद्धति नही है, लेकिन कुत्ता काटे तो उसे काट नही सकते लेकिन डंडे से तो पीटा जा सकता है। वही राजेश शिरोडक़र ने कहा कि आपकी नजर में प्रदेश की मंत्री आयटम है तो फिर प्रियंका गांधी और सोनिया गांधी क्या है जरा ये भी बताए।    गौरतलब है कि कमलनाथ द्वारा डबरा में बिना नाम लिए इमारती देवी को आयटम कहने के मामले में विरोध प्रदर्शन का दौर लगातार जारी है। फिलहाल, प्रदेश में आयटम शब्द पर बवाल मचा हुआ है और भाजपा मुखर होकर पूर्व सीएम कमलनाथ के बयान का विरोध कर रही है।

Dakhal News

Dakhal News 20 October 2020


ratlam, BJP staged, silence against, Kamal Nath, indecent remarks

रतलाम। भारतीय जनता पार्टी की जिला ईकाई ने अपने विधायकों तथा वरिष्ठ नेताओं की उपस्थिति में पूर्व मुख्यमंत्री   कमलनाथ द्वारा महिलाओं के प्रति की गई अभद्र टिप्पणी के खिलाफ सोमवार को अपना आक्रोश व्यक्त करने के लिए दो घंटे का सांकेतिक मौन धरना आयोजित किया।   उक्त जानकारी देते हुए भाजपा जिला मीडिया प्रभारी अरूण राव ने बताया कि गत दिवस कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेश सरकार की मंत्री इमरती देवी को लक्ष्य बनाकर महिलाओं के प्रति घोर आपत्तिजनक टिप्पणी सार्वजनिक मंच के माध्यम से करके प्रदेश की महिला मंत्री सहित आम महिलाओं का घोर अपमान किया है। प्रदेश भाजपा द्वारा कांग्रेस तथा कमलनाथ की इस घटिया मानसिकता के प्रति आक्रोश व्यक्त करने के लिए प्रदेश भर मे भाजपा द्वारा किये गये सांकेतिक मौन धरने के अंतर्गत  जिला भाजपा द्वारा भी नगर निगम के सामने स्थित गांधी उद्यान मे बापु की प्रतिमा के समीप दो घंटे का मौन धरना दिया गया। जिसका नेतृत्व जिलाध्यक्ष राजेन्द्रसिंह लुनेरा ने किया।     विधायक चेतन्य काश्यप,  विधायक डॉ.राजेन्द्र पांण्डे,  विधायक  दिलीप मकवाना, पूर्व विधायक श्रीमति संगीता चारेल, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य   बजरंग पुरोहित, जिला महामंत्री   प्रदीप उपाध्याय, जिला उपाध्यक्ष  बलवंत भाटी, जिला मंत्री   देवेन्द्र सिंह वाधवा,जिला मीडिया प्रभारी अरुण राव , जिला कार्यालय मंत्री  मनोज शर्मा, पूर्व महापौर   शेलेन्द्र डागा, पूर्व निगम अध्यक्ष  अशोक पोरवाल सहित पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 19 October 2020


Gwalior, Over 8 lakh 30 thousand, voters district ,elect three MLAs

ग्वालियर। मध्यप्रदेश में विधानसभा की रिक्त 28 सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं। इसके लिए आगामी तीन नवम्बर को मतदान होगा। इन 28 सीटों में ग्वालियर जिले की तीन सीटें शामिल हैं। इनमें विधानसभा क्षेत्र ग्वालियर, ग्वालियर पूर्व एवं डबरा (अजा) के 8 लाख 30 हजार से अधिक मतदाता अपने-अपने क्षेत्रों के विधायकों को चुनेंगे।   जिला निर्वाचन कार्यालय से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार, तीनों विधानसभा क्षेत्रों में कुल 8 लाख 30 हजार 459 मतदाता हैं, जो इस उपचुनाव में मतदान कर विधायक चुनने का अधिकार है। तीनों विधानसभा क्षेत्रों के कुल मतदाताओं में 4 लाख 44 हजार 128 पुरुष मतदाता एवं 3 लाख 86 हजार 297 महिला मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे। इसके अलावा तीनों विधानसभा क्षेत्रों में थर्ड जेण्डर मतदाताओं की कुल संख्या 34 है।    ग्वालियर पूर्व में सबसे अधिक तो डबरा में सबसे कम मतदाता    जिले के विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र-16 ग्वालियर पूर्व में सबसे अधिक अर्थात 3 लाख 13 हजार 210 मतदाता हैं। सबसे कम मतदाता जिले के विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र-19 डबरा अजा. में हैं। यहां के कुल मतदाताओं की संख्या 2 लाख 28 हजार 178 है।    पुरुष एवं महिला मतदाताओं का अनुपात    विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 15-ग्वालियर में पुरुष व महिला मतदाताओं का अनुपात 863.67 है। अर्थात एक हजार पुरुष मतदाताओं के पीछे लगभग 864 महिला मतदाता हैं। इसी प्रकार विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 16-ग्वालियर पूर्व में पुरुष व महिला मतदाताओं का अनुपात 864.39 है। इस प्रकार इस विधानसभा क्षेत्र में एक हजार पुरुष मतदाताओं के अनुपात में लगभग 864 महिला मतदाता हैं। विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 19-डबरा (अजा.) में पुलिस व महिला मतदाताओं का अनुपात 885.12 है। डबरा विधानसभा क्षेत्र में एक हजार पुरुष मतदाताओं के पीछे लगभग 885 महिलाएं हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 19 October 2020


Gwalior, Over 8 lakh 30 thousand, voters district ,elect three MLAs

ग्वालियर। मध्यप्रदेश में विधानसभा की रिक्त 28 सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं। इसके लिए आगामी तीन नवम्बर को मतदान होगा। इन 28 सीटों में ग्वालियर जिले की तीन सीटें शामिल हैं। इनमें विधानसभा क्षेत्र ग्वालियर, ग्वालियर पूर्व एवं डबरा (अजा) के 8 लाख 30 हजार से अधिक मतदाता अपने-अपने क्षेत्रों के विधायकों को चुनेंगे।   जिला निर्वाचन कार्यालय से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार, तीनों विधानसभा क्षेत्रों में कुल 8 लाख 30 हजार 459 मतदाता हैं, जो इस उपचुनाव में मतदान कर विधायक चुनने का अधिकार है। तीनों विधानसभा क्षेत्रों के कुल मतदाताओं में 4 लाख 44 हजार 128 पुरुष मतदाता एवं 3 लाख 86 हजार 297 महिला मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे। इसके अलावा तीनों विधानसभा क्षेत्रों में थर्ड जेण्डर मतदाताओं की कुल संख्या 34 है।    ग्वालियर पूर्व में सबसे अधिक तो डबरा में सबसे कम मतदाता    जिले के विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र-16 ग्वालियर पूर्व में सबसे अधिक अर्थात 3 लाख 13 हजार 210 मतदाता हैं। सबसे कम मतदाता जिले के विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र-19 डबरा अजा. में हैं। यहां के कुल मतदाताओं की संख्या 2 लाख 28 हजार 178 है।    पुरुष एवं महिला मतदाताओं का अनुपात    विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 15-ग्वालियर में पुरुष व महिला मतदाताओं का अनुपात 863.67 है। अर्थात एक हजार पुरुष मतदाताओं के पीछे लगभग 864 महिला मतदाता हैं। इसी प्रकार विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 16-ग्वालियर पूर्व में पुरुष व महिला मतदाताओं का अनुपात 864.39 है। इस प्रकार इस विधानसभा क्षेत्र में एक हजार पुरुष मतदाताओं के अनुपात में लगभग 864 महिला मतदाता हैं। विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 19-डबरा (अजा.) में पुलिस व महिला मतदाताओं का अनुपात 885.12 है। डबरा विधानसभा क्षेत्र में एक हजार पुरुष मतदाताओं के पीछे लगभग 885 महिलाएं हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 19 October 2020


shivpuri,BJP expressed, silence by protesting

शिवपुरी। शिवपुरी जिले में सोमवार को भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने मौन व्रत रखकर कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के द्वारा डबरा से कांग्रेस प्रत्याशी इमरती देवी पर की गई टिप्पणी को लेकर अपना विरोध जताया।    शिवपुरी जिला मुख्यालय पर भाजपा जिला अध्यक्ष राजू बाथम के नेतृत्व में भाजपा कार्यकर्ताओं ने यहां पर मौन व्रत रख कर एक महिला के प्रति की गई टिप्पणी को लेकर अपना रोष जताया। भाजपा जिलाध्यक्ष राजू बाथम ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की एक टिप्पणी घोर अपमानजनक है और महिलाओं का अपमान है। इस मौन व्रत के दौरान भाजपा के वरिष्ठ नेता और पोहरी से पूर्व विधायक नरेंद्र बिरथरे, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य राघवेंद्र गौतम सहित अन्य भाजपा नेतागण यहां पर मौजूद रहे।

Dakhal News

Dakhal News 19 October 2020


ashoknagar,BJP candidates , staring at defeat, misuse ,administration machinery

अशोकनगर। उपचुनाव नजदीक आते अपनी हार को देखते हुए भाजपा प्रत्याशी बौखलाते जा रहे हैं और अब प्रशासनिक तंत्र का दुरुपयोग कर आचार संहिता का उल्लंघन कर रहे हैं। तथा सरकारी कर्मचारी भाजपा प्रत्याशी से भयभीत रहकर उनके दबाव में मौन रहकर कार्य कर रहे हैं। इस तरह का आरोप निशंक जैन पूर्व विधायक गंज बासौदा के द्वारा रविवार को यहां पत्रकार वार्ता के दौरान लगाये।    कांग्रेस जिलाध्यक्ष हरिसिंह रघुवंशी एवं कांग्रेस से पूर्व विधायक निशंक जैन ने आरोप लगाते हुए कहा कि जिस प्रकार सरकार में मंत्री रहीं इमरती देवी दे बयान दिया था कि कलेक्टर से कहने पर हम हमारा विधायक बना लेंगे। उन्होंने कहा कि लगता है कि इमरतीदेवी के बयान का असर यहां दिखाई दे रहा है। आरोप लगाते हुए का गया कि अशोकनगर आरक्षित सीट से चुनाव लडऩे वाले भाजपा प्रत्याशी जजपाल सिंह चुनाव नजदीक आते बौखला रहे हैं, और वह प्रशासनिक तंत्र का दुरुपयोग कर रहे हैं। तथा कहा कि वहीं प्रशासनिक तंत्र भी सरकार के दबाव में आकर भाजपा प्रत्याशी द्वारा किया जा रहा निरंतर आचार संहिता का उल्लंघन को नजर अंदाज कर रहा है और रिटर्निंग अधिकारी द्वारा भी ढुलमुल रवैया अपनाया जा रहा है।    आरोप लगाते हुए कहा गया कि भाजपा प्रत्याशी के नामांकन फार्म में हमारे अभ्यर्थी द्वारा लगाई आपत्ति को बिना संतुष्ट पूर्ण जवाब दिए आपत्ति निरस्त कर दी गई। तथा आरोप लगाते हुए कहा गया कि भाजपा प्रत्याशी द्वारा विधानसभा के रोजगार सहायक इत्यादि की गुप्त बैठकें ली जा रहीं हैं। इसी प्रकार पंचायत एवं नगरपालिका के सभी कर्मचारी भाजपा प्रत्याशी के भारी दबाव में काम करने मजबूर हो रहे हैं।    आरोप लगाते हुए का गया है कि भाजपा प्रत्याशी की कार्यशैली जनता और प्रशासन को पता है। सभी कर्मचारी भयभीत हैं और जनता के लोग भी फर्जी केस लगने और पिटाई के डर से मौन है। आशंका व्यक्त कर कहा गया है कि सरकार में मंत्री रहीं इमरतीदेवी की बात कि कलेक्टर हमको चुनाव जितवायेंगे। यह बात यहां प्रत्यक्ष रूप से सिद्ध हो रही है।

Dakhal News

Dakhal News 18 October 2020


Nagda,accidental death ,daughter-in-law , Union Minister Gehlot

उज्जैन/नागदा। केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गेहलोत की पुत्रवधू एवं पूर्व भाजपा विधायक जितेंद्र गेहलोत की पत्नी चंद्रकला गेहलोत का शनिवार रात लगभग एक बजे लगभग 45 वर्ष की उम्र में अकस्मात निधन हो गया। ह्रदयाघात से निधन होना बताया जा रहा है।   इस खबर के बाद देर रात से ही मंत्री गेहलोत के निवास स्थान 56 ब्लॉक पर समर्थकों का जमावड़ा लग गया। रविवार सुबह 11 बजे शवयात्रा निकालने की तैयारियां की जा रही है। बता दें कि जितेंद्र गेहलोत उज्जैन संसदीय क्षेत्र के आलोट विधानसभा क्षेत्र से वर्ष 2013 से 2018 तक विधायक रहे थे। 

Dakhal News

Dakhal News 18 October 2020


Nagda,accidental death ,daughter-in-law , Union Minister Gehlot

उज्जैन/नागदा। केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गेहलोत की पुत्रवधू एवं पूर्व भाजपा विधायक जितेंद्र गेहलोत की पत्नी चंद्रकला गेहलोत का शनिवार रात लगभग एक बजे लगभग 45 वर्ष की उम्र में अकस्मात निधन हो गया। ह्रदयाघात से निधन होना बताया जा रहा है।   इस खबर के बाद देर रात से ही मंत्री गेहलोत के निवास स्थान 56 ब्लॉक पर समर्थकों का जमावड़ा लग गया। रविवार सुबह 11 बजे शवयात्रा निकालने की तैयारियां की जा रही है। बता दें कि जितेंद्र गेहलोत उज्जैन संसदीय क्षेत्र के आलोट विधानसभा क्षेत्र से वर्ष 2013 से 2018 तक विधायक रहे थे। 

Dakhal News

Dakhal News 18 October 2020


bhopal,Jeetu alleges, democracy killing party,made police goon

भोपाल। मुरैना जिले की दिमनी विधानसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी रविंद्र सिंह भिड़ोसा के भाई के साथ पुलिस द्वारा की गई बर्बरतापूर्ण पिटाई पर राजनीति तेज हो गई है। पूर्व मंत्री और कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी ने घटना की निंदा करते हुए, इसे लोकतंत्र की हत्या करने वालों की तानाशाही बताई है। पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि प्रदेश में लोकतंत्र की हत्या कर पीछे के रास्ते से सत्ता में आई भाजपा ने पुलिस वाले गुंडे पाल रखे है। जो आम आदमी को परेशान करने सच की आवाज उठाने वालों की आवाज दबाने का काम करते है।   जीतू पटवारी ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि पिछले 15 सालों में देश और विश्व की सबसे बड़ी पार्टी होने का दावा करने वाली भाजपा ने मध्य प्रदेश में माफिया और गुंडे पाले है। जो चुनाव आयोग में शिकायत करने पर पहले तो बर्बरतापूर्ण पिटाई और गुंडागिरी कर लोकतंत्र का गला घोटकर आवाज दबाने की कोशिश करते है। थाना प्रभारी के चार पहिया वाहन से मिले अवैध हथियारों से तो यही साबित होता है कि पिछले 15 सालों के भाजपा राज में पुलिस किस तरह रक्षक की जगह भक्षक बनकर गुंडाराज फैलाए हुए थी। जो पिछले 6 महीनों से एक बार फिर देखने को मिल रहा है।   उन्होंने निशाना साधते हुए कहा कि पुलिस और माफिया के गठजोड़ को कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने तोडक़र आम जन के लिए प्रदेश को एक बार फिर शांति का टापू बनाया था। जिसे पिछले 6 महीने में 15 साल से चले आ रहे माफिया और गुंडाराज में तब्दील कर दिया है। यही कारण है कि चुनाव के समय चुनाव आयोग में शिकायत करने पर पुलिस इस तरह की गुंडागर्दी कर बर्बरतापूर्वक चुनाव लड़ रहे प्रत्याशी के भाई के साथ मारपीट करती है।   जीतू पटवारी ने कहा कि प्रदेश में माफिया तो बेख़ौफ़ है। उज्जैन में जहरीली शराब का कारोबार करने वाले माफिया ने कई लोगों की जान ले ली, लेकिन कार्यवाही सिर्फ थाना प्रभारी के निलंबन तक ही सीमित है। पुलिस और माफिया का गठजोड़ जिसे कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने खत्म करने का काम किया था वह फिर से पनपने लगा है। यही कारण है कि मुरैना जिले की दिमनी विधानसभा में उप चुनाव के दौरान प्रत्याशी के भाई के साथ पुलिस बर्बरतापूर्ण मारपीट करती है तो दूसरी ओर उज्जैन में जहरीली शराब पीने से लोगों की मौत हो रही है।    उन्होंने सवाल पूछते हुए कहा कि यह पुलिस का माफिया के साथ गठजोड़ नहीं तो क्या है। क्या पुलिस थाना क्षेत्र में चल रही अवैध गतिविधियों पर नजऱ नहीं रख पा रही या सत्ता संरक्षण के चलते अक्षम हो गई है। अगर प्रदेश के गृह मंत्री से पुलिस महकमा नहीं सम्हल रहा तो उन्हें तत्काल अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। "देश भक्ति जन सेवा" के मूल मंत्र को भूलकर पुलिस विभाग माफिया के संरक्षण और भाजपा की चाकरी में लगा है। यह लोकतंत्र की हत्या कर तानाशाही के तरफ बढऩे जैसा है। जिसकी कांग्रेस पार्टी पुरजोर निंदा करती है।

Dakhal News

Dakhal News 16 October 2020


ashoknagar, Congress told, Vijayvargiya

अशोकनगर। जिले में होने जा रहे दो उपचुनावों के बीच नेताओं के एक दूसरे के विरोध में तीखे बयान थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। प्रदेश की 28 सीटों पर हो रहे उपचुनावों में बिकाऊ और गद्दारों से शुरू हुए बयान रूपी व्यंग बाणों के बाद नंगे-भूखे के बाद यहां भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय द्वारा कमलनाथ और दिग्विजय सिंह को चुन्नु-मुन्नु कहे जाने के साथ कमलनाथ और दिग्विजय सिंह की दोनों की सम्पत्ति मिलाकर ज्योतिरादित्य सिंधिया का एक महल बताये जाने पर शुक्रवार को प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता एवं अशोकनगर के मीडिया समन्वयक शहरयार खान ने कैलाश विजयवर्गीय के बयान को वीरांगना लक्ष्मीबाई का अपमान बताया है।    कांग्रेस प्रवक्ता का कहना है कि भाजपा एवं कैलाश विजयवर्गीय को यह तय करना होगा कि वह वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई के साथ हैं यह महल की सम्पत्ति के पैरोकार हैं। उन्होंने कहा कि आप कमाई एवं बाप कमाई में फर्क होता है, महल की दिवारें वीरांगना की शहादत पर टिकी हैं, ऐसे बयान देशभक्तों का अपमान है। 

Dakhal News

Dakhal News 16 October 2020


guna, Kamal Nath,contractor in Congress, all others are Beldar,Jha

गुना। वरिष्ठ भाजपा नेता प्रभात झा ने गुरुवार को अपने गुना दौरे के दौरान पत्रकारों से बातचीत में कहा कि कांग्रेस में संगठन नाम की चीज खत्म हो गई है। वहां पर एक मात्र व्यक्ति कमलनाथ हैं। हालत यह है कि कांग्रेस में कमलनाथ ठेकेदार हैं, बाकी सारे बेलदार हैं।     उन्होंने कहा कि इसलिए कांग्रेस की तरफ कमलनाथ के अलावा प्रदेशभर से कोई नेता आमसभा अथवा रैली नहीं कर रहा है, केवल कमलनाथ की ही सभा हो रही है। झा ने एक प्रश्र के उत्तर में चुटकी लेते हुए कहा कि अच्छा है दिल्ली में राहुल गांधी बने रहे और प्रदेश में कमलनाथ  बने रहे तो हमेंं कुछ करने की जरुरत ही नहीं पड़ेंगी। सब अपने आप होता चला जाएगा।    कांग्रेस हुई नौ दो ग्यारह   उन्होंने कहा कि कांग्रेस खत्म हो चुकी है। यहां पर जो कांग्रेस थी, वह ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस थी। अब सिंधिया भाजपा में आ गए हैं, तो भाजपा एक और एक 11 हुए और कांग्रेस नौ दो ग्यारह हो गई। झा ने कहा कि प्रदेश को केवल कमलनाथ ही चला रहे हैं। पोस्टरों से राहुल गांधी और दिग्विजय सिंह गायब हो गए हैं। प्रदेश कांगे्रस को कमलनाथ की कंपनी चला रही है।    गरीब और भूखों की सेवा करना क्या गुनाह है   प्रभात झा ने कहा कि शिवराज सिंह प्रदेश में गरीब, कमजोर लोगों की सेवा कर रहे हैं, तो कांग्रेस के पेट में दर्द हो रहा है, और वह निम्न भाषा पर उतर आई है। कांग्रेस के नेता प्रदेश के सीएम को भूखा, नंगा बोलते हैं। जबकि कमलनाथ को उद्योगपति बताते हैं। उन्होंने कहा कि गरीब, कमजोर की सेवा करना गुनाह है तो यह शिवराज जी और भाजपा करती रहेगी।

Dakhal News

Dakhal News 15 October 2020


bhopal, Kamal Nath, demands justice, asks government,mafias so much

भोपाल। उज्जैन में कच्ची शराब पीने से नौ लोगों की मौत के मामले में मप्र के पूर्व सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंंने ट्वीट कर पीडि़त परिवार को उचित न्याय दिलाने की मांग करते हुए सरकार पर सवाल साधा है। उन्होंने सीएम शिवराज से पूछा है कि आखिर सरकार को माफियाओं से इतना प्रेम क्यों है।   कमलनाथा ने अपने ट्वीट मेें लिखा ‘उज्जैन में शराब माफिया ने 9 जानें लीन ली, 9 परिवार बर्बाद कर दिये। शिवराज जी, ये माफिया कब तक यूँ ही निर्दोषों की जान लेते रहेंगे? हमने इन्हें कुचला था, हमारी सरकार  जाते ही ये फिर बेखौफ हो गये, फिर सक्रिय हो गये? आपकी सरकार का माफिय़ाओं से आखिर इतना प्रेम क्यों? क्यों इन्हें बख्शा जा रहा है ? क्यों इन्हें संरक्षण दिया जा रहा है ? उन्होंने कहा कि मृतकों के प्रति मेरी शोक संवेदनाएँ। पीडि़त परिवारों को न्याय मिले, उनकी हर संभव मदद हो, दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही हो। बताते चले कि कमलनाथ ने पूरे मामले की जांच के लिए एक टीम भी गठित की है, जो मौके पर जाकर जांच करेगी और कमलनाथ को रिपोर्ट सौंपेगी।

Dakhal News

Dakhal News 15 October 2020


bhopal, Kamal Nath, demands justice, asks government,mafias so much

भोपाल। उज्जैन में कच्ची शराब पीने से नौ लोगों की मौत के मामले में मप्र के पूर्व सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंंने ट्वीट कर पीडि़त परिवार को उचित न्याय दिलाने की मांग करते हुए सरकार पर सवाल साधा है। उन्होंने सीएम शिवराज से पूछा है कि आखिर सरकार को माफियाओं से इतना प्रेम क्यों है।   कमलनाथा ने अपने ट्वीट मेें लिखा ‘उज्जैन में शराब माफिया ने 9 जानें लीन ली, 9 परिवार बर्बाद कर दिये। शिवराज जी, ये माफिया कब तक यूँ ही निर्दोषों की जान लेते रहेंगे? हमने इन्हें कुचला था, हमारी सरकार  जाते ही ये फिर बेखौफ हो गये, फिर सक्रिय हो गये? आपकी सरकार का माफिय़ाओं से आखिर इतना प्रेम क्यों? क्यों इन्हें बख्शा जा रहा है ? क्यों इन्हें संरक्षण दिया जा रहा है ? उन्होंने कहा कि मृतकों के प्रति मेरी शोक संवेदनाएँ। पीडि़त परिवारों को न्याय मिले, उनकी हर संभव मदद हो, दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही हो। बताते चले कि कमलनाथ ने पूरे मामले की जांच के लिए एक टीम भी गठित की है, जो मौके पर जाकर जांच करेगी और कमलनाथ को रिपोर्ट सौंपेगी।

Dakhal News

Dakhal News 15 October 2020


bhopal, Congress charges, law and order, Madhya Pradesh , chaotic

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने प्रदेश की कानून व्यवस्था की स्थिति पर हैरानी जाहिर करते हुए मुख्यमंत्री से  सवाल किया है। उन्होंने कहा है कि जिन जिलों में उपचुनाव हैं वहां विगत 90 दिनों में पुलिस के खिलाफ सात हजार शिकायतें दर्ज होने के समाचार हैं। जहरीली शराब पीने से 7 आदमियों की मौत हो गई है। भ्रष्टाचार में पकड़े जा रहे बाबू चपरासियों के यहां करोड़ों रुपए मिल रहे हैं। बच्चियों की अस्मत लूटी जा रही है। हत्याएं हो रही हैं। गरीबों की एफ आई आर नहीं लिखी जा रही हैं। आखिर प्रदेश की इस अराजक स्थिति के लिए जिम्मेदार कौन है? इसे कौन संभालेगा?   भूपेन्द्र गुप्ता ने गुरुवार को एक बयान जारी कर सीएम शिवराज पर निशाना साधते हुए कहा कि आप अपने आप को गरीब सिद्ध करने में लगे हुए हैं। आप की गरीबी सिद्ध करने का विषय नहीं है, सुशासन आपके सिद्ध करने का विषय है। इस अराजकता से प्रदेश को निजात दिलाईये। प्रदेश को शांति चाहिए, उसको  व्यवस्था चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश जानना चाहता है कि क्या अब इस काम के लिये किसी गृह मंत्री को भी इंपोर्ट करना पड़ेगा? मध्यप्रदेश चाहता है कि इस दुर्भाग्य की परिस्थिति से प्रदेश को बाहर निकालिये और अपने दायित्व का निर्वाह करिए, बाद में गरीबी सिद्ध कर लीजिएगा।

Dakhal News

Dakhal News 15 October 2020


bhopal,Ajay Singh, Adal Singh Kansana, roared in Sumavali, Chambal

भोपाल। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजयसिंह आज कमलनाथ के साथ मुरैना जिले के सुमावली में कांग्रेस प्रत्याशी अजब सिंह कुशवाहा के समर्थन में आयोजित चुनावी सभा में पँहुचे। उन्होंने कहा कि यहाँ की जनता ने अपने कीमती वोटों से कांग्रेस की सरकार बनायी थी। उस दौर में कांग्रेस को सत्ता सौंपी थी जब पूरा प्रदेश मामा के झूठे वादों से थक चुका था। पूरा प्रदेश जान गया था कि मामा का असली चेहरा क्या है? लेकिन हुआ क्या? जिसे आपने चुना था, उस एदल सिंह कंसाना ने चंबल की रेत, अवैध शराब और टोल प्लाजा बेचते बेचते आपका वोट भी बेच दिया। वे कांग्रेस को बेचकर अब भाजपा के उम्मीदवार बन गए हैं। जब जनता की बनाई सरकार छल कपट से चली गई तो अब आपका ये फर्ज बनता है कि दोबारा कमलनाथ और कांग्रेस की सरकार बनायें।   अजय सिंह ने कहा कि पहले सिंधिया कहते थे कि टाइगर अभी जिंदा है। अब उन्होंने कहा कि मैं काला कौआ हूँ। कौए के बारे में आप सभी जानते हैं। सिंधिया को टाइगर से कौआ बने अभी कुछ ही दिन हुये हैं। अब चुनाव के बाद क्या बनेंगे, यह समय ही बताएगा। सिंधिया ने जो गद्दारी की है उसमें उनका दोष नहीं है। उन्होंने वही किया जो उनके राजपरिवार में पहले से होते आया है। परिवार की पृष्ठभूमि देर सबेर उजागर हो ही जाती है।   अजय सिंह ने कहा कि जब मैं पंचायत विभाग का मंत्री था तो एदल सिंह कंसाना मेरे राज्य मंत्री हुआ करते थे। विधानसभा प्रश्नकाल के समय वे हमेशा गोल हो जाया करते थे। जब मैं उनसे कहता कि अपने विभाग का प्रश्नकाल है, अधिकारियों के साथ ब्रीफिंग में आ जाना। तो कहते थे कि हाँ भैया, आ जाऊंगा। लेकिन ठीक एक दिन पहले उनका फोन आ जाता था कि मैं प्रश्नकाल में उपस्थित नहीं हो सकूँगा क्योंकि मेरा रेत का ट्रक पकड़ गया है। चंबल में कोई माफिया गिरोह है तो वह एदल सिंह कंसाना का है। आज एदल सिंह ने आपका वोट बेचा है, अब आपका समय आया है। आपको बता देना है कि हमें नहीं चाहिए रेत का कोई माफिया, हमें नहीं चाहिए ऐसा विधायक जो टोल प्लाजा में चोरी करवाता हो, गाँव गाँव में अवैध दारू बेचता हो। हमें तो अजब सिंह कुशवाहा जैसा सीधा सादा किसान चाहिए, जो जनता की सेवा करे।   अजयसिंह ने कहा कि मेरे पिताजी स्व अर्जुनसिंह तीन बार प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। वे सन 77 से कमलनाथ के सहयोगी रहे, उनके ही कार्यकाल के दौरान इस अंचल में मलखान सिंह और फूलनदेवी ने आत्मसमर्पण किया। आत्मसमर्पण के बाद वापस लौटते हुये उन्होंने मुझसे कहा था कि मुरैना में एक खासियत है। यदि यहाँ का कोई व्यक्ति आत्म सम्मान की खातिर गोली चलाये तो परिवार उसका बचाव करता है, और यदि वह गद्दारी करता है या किसी महिला से छेड़छाड़ करता है तो उसका परिवार उसे पुलिस को सौंप देता है। आज आपके साथ गद्दारी हुई है, आपके वोट को बेचा है एदल सिंह ने, आपके वोट पर पुलिस और सरकार के बल पर खुले आम कब्जा करने की बात करता है। जनता जनार्दन आप हो, किसी दूसरे का अधिकार नहीं है आपके वोट पर। यदि आपकी बनाई सरकार छलकपट से गिरा दी गई है तो आपका फर्ज बनता है दोबारा कमलनाथ और कांग्रेस सरकार बनाने का। मुझे यहाँ की जनता पर पूरा भरोसा है कि वह सच का साथ देगी।

Dakhal News

Dakhal News 14 October 2020


bhopal,Poor God ,like Shivraj ,made everyone,Sajjan Singh Verma

भोपाल। भूखे-नंगे और गरीब शब्दों को लेकर प्रदेश की राजनीति में जमकर वार और पलटवार चल रहे हैं। प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सज्जन सिंह वर्मा ने भाजपा के मैं भी गरीब, मैं भी शिवराज अभियान को लेकर पलटवार किया है। उन्होंने कहा है कि शिवराज सिंह चौहान झूठ का आडम्बर रचते हैं, अपने शब्द जाल में प्रदेश की भोली भाली जनता को ठगने का प्रयास करते रहते हैं। उन्होंने कहा कि मैं भी गरीब, मैं भी शिवराज बोलकर भाजपाई क्यों शिवराज बन रहे हैं, शिवराज के चेहरे को तो प्रदेश की जनता 2018 में ही नकार चुकी है।    सज्जन सिंह वर्मा ने बुधवार को मीडिया से बातचीत में कहा कि इस गरीब शिवराज की कहानी भी प्रदेश की जनता सुन ले। जिस व्यक्ति के घर पर दो-दो नोट गिनने की मशीन हो जिसके बेटे का 1000 एकड़ का फार्म हाउस हो, जिसके बच्चे विदेशों में पढ़ रहे हों, जिसका मुंबई के उद्योगपति के साथ बड़ा डेयरी फार्म हो, बोलने में तो उसे बड़ा अच्छा लग रहा है कि मैं भी गरीब। उन्होंने कहा कि 15 साल जो प्रदेश में भ्रष्टाचार किया, होशंगाबाद और सीहोर की नदियों की रेत खा गए और फिर भी कह रहे हैं कि मैं गरीब हूं। भगवान ऐसा गरीब सबको बना दे, प्रदेश स्वर्ग बन जायेगा।    वर्मा ने कहा कि शिवराज सिंह, साधना सिंह, नरोत्तम मिश्रा और नरेन्द्र तोमर प्रदेश की जनता को यह बताएं कि वह जब पहली बार चुनाव लड़े थे तब और आज में क्या अंतर है। पहले उनकी संपत्ति कितनी थी और आज क्या है ? उन्होंने कहा कि मंत्री या मुख्यमंत्री बनने से दौलत नहीं आती है, शिवराज अपनी काली कमाई का हिसाब जनता को दें। प्रदेश की जनता यह जानना चाहती है कि भाजपा के कितने नेता गरीब हैं।

Dakhal News

Dakhal News 14 October 2020


bhopal,.Explain industrialist ,Kamal Nath, money of poor, tribal women

भोपाल। गरीब सहरिया, बैगा, भारिया आदिवासी महिलाओं के जिस कष्ट ने गरीब किसान के बेटे शिवराजसिंह चौहान को व्यथित कर दिया था, वो कष्ट उद्योगपति कमलनाथ को क्यों दिखाई नहीं दिया? क्या उद्योगपति कमलनाथ यह नहीं चाहते थे कि इन आदिवासी महिलाओं में व्याप्त कुपोषण की समस्या दूर हो? अगर ऐसा नहीं है, तो कमलनाथ को प्रदेश की जनता और आदिवासी समुदाय को इस बात का जवाब देना चाहिए कि उन्होंने सहरिया, बैगा, भारिया महिलाओं को पोषण भत्ते के रूप में दी जाने वाली 1000 रुपये की राशि क्यों रोक ली थी? यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने बुधवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ से सवाल करते हुए कही।प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि भाजपा सरकार के संवेदनशील मुख्यमंत्री जिन्हें कांग्रेस के लोग ‘भूखे-नंगे’ कहते हैं, उन्होंने सहरिया, बैगा, भारिया जनजातियों की महिलाओं को पोषण भत्ते के रूप में प्रतिमाह 1000 रुपये देना शुरू किया था। लेकिन देश के नं.2 उद्योगपति कमलनाथ जी ने मुख्यमंत्री बनते ही इन महिलाओं को मिलने वाला भत्ता बंद कर दिया। शर्मा ने कहा कि कांग्रेस के लोग ‘भूखे-नंगे’ कहकर गरीबों का सिर्फ अपमान ही नहीं कर रहे हैं, बल्कि ये तो उनकी जिंदगी से भी खेलते रहे हैं। शर्मा ने पूछा कि क्या कमलनाथ और कांग्रेस के लोग यह नहीं चाहते थे कि इन जनजातीय समुदायों में मातृ एवं शिशु मृत्युदर में कमी आए? क्या वे नहीं चाहते थे कि इन समुदायों की महिलाएं और बच्चे स्वस्थ रहें और अपने परिवार तथा समाज को रोगमुक्त बनाने में योगदान दें? शर्मा ने कहा कि ऐसे उद्योगपति से तो ‘भूखे-नंगे’ होना ही अच्छा है, क्योंकि हमारे मुख्यमंत्री ने न सिर्फ इन समुदायों की दो लाख महिलाओं को भत्ता देना शुरू किया, बल्कि उस समय का बाकी पैसा भी दे रहे हैं, जब प्रदेश में एक उद्योगपति की सरकार थी।

Dakhal News

Dakhal News 14 October 2020


bhopal,Services , Home Guard soldiers, commendable emergency, Minister Dr. Mishra

भोपाल। काम कोई भी हो, छोटा या बड़ा नहीं होता, काम में डूब जाना बड़ी बात है। होमगार्ड के जवान आपात स्थिति में भी बेहतर परिणाम देते आये हैं, जो सराहनीय है। यह बात गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने मंगलवार को अन्तर्राष्ट्रीय आपदा जोखिम न्यूनीकरण दिवस पर होमगार्ड मुख्यालय परिसर में आयोजित सैनिक सम्मेलन में कही। उन्होंने कहा कि होमगार्ड की महिला सैनिकों को भी 90 दिवस के सवैतनिक प्रसूति अवकाश का लाभ दिया जाएगा।    मंत्री डॉ. मिश्रा ने होमगार्ड लाइन में होमगार्ड एवं एसडीईआरएफ के जवानों के आपदा बचाव संबंधी क्षमता प्रदर्शन का भी अवलोकन किया। उन्होंने मुख्यालय परिसर में सिविल डिफेंस वालेंटियर्स के सम्मेलन को भी संबोधित किया। कार्यक्रम में पुलिस महानिदेशक विवेक जौहरी, एसीएस (गृह) डॉ. राजेश राजौरा, महानिदेशक होमगार्ड अशोक दोहारे, एडीजी अशोक अवस्थी, एडीजी होमगार्ड अखितो सेमा व अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।   गृह मंत्री डॉ. मिश्रा ने होमगार्ड के जवानों को संबोधित करते हुए कहा कि सैनिक से सिपाही की चयन प्रक्रिया का सरलीकरण किया जाएगा। चयन में सीनियोरिटी कम मेरिट प्रक्रिया अपनाई जायेगी। सैनिकों के लिये गठित वेलफेर फंड की प्रतिवर्ष एक करोड़ 50 लाख रूपये मिलने वाली राशि को बढ़ाया जाएगा। उन्होंने कहा कि सैनिकों को मिलने वाली अनुगृह राशि जो 40 वर्ष से पहले सेवानिवृत्ति पर नहीं मिलती है, इसे दिलाने के लिये प्रक्रिया पर पुनर्विचार किया जाएगा। सेवाओं में यदि बीच में ब्रेक होता है तो बड़े कालखंड पर 15 दिवस प्रतिवर्ष के मान से अनुगृह राशि प्रदान किये जाने पर भी विचार किया जाएगा। मंत्री डॉ. मिश्रा ने कहा कि होमगार्ड और एसडीईआरएफ के जवान भी पुलिस विभाग के ही महत्वपूर्ण अंग हैं। जवानों के द्वारा संकटकाल में सेवाएँ देकर बेहतर कार्य किये जाने के उदाहरण मौजूद हैं। जवानों के हित में सरकार महत्वपूर्ण निर्णय ले रही है, उन्हें किसी भी प्रकार की दिक्कतें नहीं आने दी जाएंगी।   मंत्री डॉ. मिश्रा ने आपदा बचाव संबंधी क्षमता प्रदर्शन को सराहा होमगार्ड लाइन में आपदा के समय आगजनी, भूकम्प, बाढ़ इत्यादि के समय लोगों की जान-माल की सुरक्षा संबंधी होमगार्ड और एसडीईआरएफ के जवानों द्वारा किये गये क्षमता प्रदर्शन को गृह मंत्री डॉ. मिश्रा ने सराहा। उन्होंने जवानों का अभिनंदन करते हुए कहा कि आज जवनों ने वर्चुअल आग नहीं एक्च्युअल आग से लोगों की जिंदगी बचाने का अद्भुत प्रदर्शन किया है। भूकम्प में क्षतिग्रस्त इमारतों से लोगों की जिन्दगी को बचाने का भी उत्कृष्ट प्रदर्शन किया गया।   बिना कुछ लिये सेवाएँ देना बहुत बड़ा त्याग है गृह मंत्री डॉ. मिश्रा ने सिविल डिफेंस वॉलेंटियर्स के राज्य स्तरीय समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि विभिन्न आपदाओं के समय विपरित परिस्थितियों में अपनी इच्छाओं का त्याग कर बगैर कुछ लिये सेवाएँ देना बहुत बड़ा त्याग है। उन्होंने कोरोना संक्रमण काल में वॉलेंटियर्स द्वारा दी गई सेवाओं की भी सराहना की। मंत्री डॉ. मिश्रा ने संकट काल के अतिरिक्त भी वॉलेंटियर्स को खाली समय में जनहित के कार्यों में आगे बढ़कर सहभागिता करने का आव्हान किया।

Dakhal News

Dakhal News 13 October 2020


bhopal,Chief Minister, interacted directly , principals of various schools

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को भोपाल के मिन्टो हॉल में 497 करोड़ 70 लाख रूपये की लागत से नवनिर्मित 145 शैक्षणिक भवनों का वर्चुअल लोकार्पण किया। इस अवसर पर मुख्‍यमंत्री ने विभिन्‍न स्‍कूलों के प्राचार्यों, अभिभावकों से सीधा संवाद भी किया।    मुख्यमंत्री ने उमरिया जिले के कन्या शिक्षा परिसर प्रांगण में उपस्थित अभिभावक पुरूषोत्तम से नवनिर्मित भवन में उपलब्ध सुविधाओं के बारे चर्चा की। उन्‍होंने कोविड काल में शिक्षा संचालन के संबंध में प्राचार्य से जानकारी ली। प्राचार्य ने बताया कि कोरोना संक्रमण काल में 33 प्रतिशत बच्चों को ऑनलाइन शिक्षा प्रदान की जा रही है। इसके अलावा सभी बच्चों को उनके घरों में पुस्तकें उपलब्ध करवाई गई हैं। शिक्षक भी स्टूडेंट के निरंतर सम्पर्क में बने हुए हैं। मुख्यमंत्री ने स्कूल खोले जाने के संबंध में बताया कि परिस्थितियों को देखते हुए दीपावली के बाद स्कूल प्रारंभ किये जायेंगे।   सुरक्षा ने कहा पटवारी बनूंगी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शाजापुर जिले की मेधावी छात्रा कुमारी सुरक्षा पाटीदार से भी चर्चा की। उन्होंने मेधावी छात्रा के रूप में शासन द्वारा लैपटॉप के लिये उपलब्ध कराई गई राशि के संबंध में जानकारी ली। छात्रा सुरक्षा पाटीदार ने मुख्यमंत्री चौहान से कहा कि शासन द्वारा जो मदद की गई है, उसे वे अपनी आगे की पढ़ाई में उपयोग करेंगी। मुख्यमंत्री चौहान ने पूछा कि आगे क्या बनना चाहती हो, छात्रा सुरक्षा ने बड़ सहज रूप से कहा कि मेरी इच्छा पटवारी बनने की है।   पंचायत प्रधान ने कहा करेंगे समय-समय पर रख-रखाव मुख्यमंत्री ने शाजापुर जिले के शुजालपुर करवाला शाला भवन में उपस्थित पंचायत प्रधान नंदकिशोर पाटीदार से पूछा कि शाला भवन के बन जाने के बाद अब उसके रख-रखाव के लिए आपकी क्या कार्य योजना है। पाटीदार ने बताया कि स्कूल भवन में 195 बच्चों के लिए पर्याप्त स्थान है। जनप्रतिनिधि के रूप में हम स्वयं समय-समय पर रख-रखाव पर निगाह रखेंगे। प्राचार्य धर्मेन्द्र यादव ने बताया कि स्कूल 2002 में हाई स्कूल था। वर्ष 2013 में हायर सेकेण्ड्री स्कूल के रूप में परिवर्तित किया गया। पर्याप्त कक्ष हैं एवं स्टॉफ रूम, टॉयलेट आदि व्यवस्थित रूप से बनाये गये हैं। अकबरपुर भोपाल के शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल में जनप्रतिनिधि के रूप में उपस्थित प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने स्कूल में बच्चों को संख्या को देखते हुए स्कूल भवन में एक मंजिल और बनाए जाने का अनुरोध किया।   मुख्यमंत्री चौहान ने मंगलवार को जिन शैक्षणिक भवनों का लोकार्पण किया, उनमें आदिम-जाति कल्याण विभाग के 357 करोड़ 9 लाख रुपये लागत के 13 विशिष्ट आवासीय विद्यालयों (कन्या शिक्षा परिसर), 4 करोड़ 63 लाख रुपये के 3 छात्रावास के नवीन भवनों और स्कूल शिक्षा विभाग के 135 करोड़ 98 लाख रुपये लागत के 129 हाई स्कूल एवं हायर सेकेण्डरी शाला भवन शामिल है। इन भवनों का निर्माण आदिमजाति कल्याण विभाग एवं स्कूल शिक्षा विभाग के लिए लोकनिर्माण विभाग द्वारा किया गया। लोकार्पण कार्यक्रम में लोकार्पित हुई सभी शैक्षणिक अधोसंरचनाएं चुनाव अप्रभावित जिलों की हैं।    आदिम-जाति कल्याण विभाग के लोकार्पित होने वाले 13 कन्या शिक्षा परिसरों में जन-जातीय वर्ग के 6 हजार 370 बालिकाओं और 3 छात्रावास भवनों में 150 छात्रों को बेहतर आवासीय सुविधा उपलब्ध हो सकेगी। स्कूल शिक्षा विभाग के नव-निर्मित 129 हाई एवं हायर सेकेण्डरी स्कूल 26 जिलों के अलग-अलग स्थानों पर निर्मित हैं। इन शाला भवनों के निर्माण से करीब 21 हजार विद्यार्थी लाभान्वित होंगे।

Dakhal News

Dakhal News 13 October 2020


bhopal, Ajay Singh ,reached Bamori, targeted the BJP

भोपाल। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजयसिंह मंगलवार को कमलनाथ के साथ बमोरी पंहुचे। यहां उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के पाला बदलने के बाद से ग्वालियर चम्बल संभाग का एक- एक कांग्रेस कार्यकर्ता आज अपने आप को वास्तव में स्वतंत्र महसूस कर रहा है। वह अब एकाधिकारवाद से आजाद है। आजाद नहीं हैं तो केवल महेंद्र सिंह सिसोदिया, जो अभी भी कहते फिर रहे हैं कि मैं तो सिंधिया के जूते उठाने लायक हूँ। मैं पूछना चाहता हूँ कि वे जनता की सेवा करने के लिए विधायक बने थे या सिंधिया के जूते उठाने के लिए। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि शर्म आना चाहिए ऐसी गुलामी पर। उनके दादा सागर सिंह सिसोदिया जिन्होंने स्वतन्त्रता के लिए अंग्रेजों से लड़ाई लड़ी। वे एक सच्चे कांग्रेसी थे। आज उनकी आत्मा दुखी हो रही होगी कि पोता कहाँ भटक गया है।   अजयसिंह ने कांग्रेस प्रत्याशी के.एल. अग्रवाल के पक्ष में भीड़ भरी चुनावी सभा में कहा कि एक सुरेश धाकड़ हैं जो कहते हैं कि मैं सिंधिया की वजह से भाजपा में बिका। वे जरुर अपना ईमान खोकर बिक गए लेकिन बमोरी की खुद्दार जनता नहीं बिकी है। वह तीन तारीख को यह बात सिद्ध कर देगी कि जब कांग्रेस के कन्हैयालाल अग्रवाल जीत का परचम लहरायेंगे। गुना बमोरी का कोई व्यापारी बाकी नहीं हैं जिससे सिसोदिया के जमाने में उगाही न की गई हो। सिसोदिया को तो बमोरी आने की फुरसत नहीं थी। वे भोपाल में कहाँ गुलछर्रे उड़ा रहे थे यह मैं चुनाव के बाद उजागर करूँगा। इसी तरह महाराज के एक और गुलाम सुरखी में हैं गोविन्द सिंह राजपूत, जो छोटे महाराज बन बैठे हैं और अपनी गुंडागर्दी से अपने ही कांग्रेस साथियों को पनपने नहीं देते।   अजयसिंह ने कहा कि मैं भी छ: बार का विधायक हूँ। सत्तर के दशक में मैं यहाँ के जंगल घूमने आया था। सिंधिया की चौधराहट के कारण कांग्रेस का कोई भी बड़ा नेता ग्वालियर चम्बल संभाग में उनकी इच्छा के बिना यहाँ नहीं आता था। मेरे पिता तीन बार मुख्यमंत्री रहे, उनके साथ 1984 में मैं तब इस क्षेत्र में आया था जब इंदिरा गांधी ने खाद कारखाने का उद्घाटन किया था। उसके बाद आज 36 साल बाद बमोरी आया हूँ जबकि मेरे ममिया ससुर (दिग्विजय सिंह) यहीं के हैं। उन्होंने विनोदी भाव से जयवर्धनसिंह की और मुखातिब होते हुए कहा कि मैं साले साहब से आग्रह करता हूँ कि कभी कभी मुझे भी यहाँ बुला लिया करें।

Dakhal News

Dakhal News 13 October 2020


bhopal,We are proud,our Prime Minister, Chief Minister, poor families,Vishnudutt Sharma

भोपाल, 12 अक्टूबर (हि.स.)। हमें गर्व है कि हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गरीब मां के बेटे हैं और हमारे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान गरीब किसान के बेटे हैं। ये गरीब परिवारों से हैं, इसलिए गरीब का दर्द जानते हैं, और गरीबों के मसीहा बनकर उनके कल्याण का काम कर रहे हैं। कांग्रेस के नेताओं की तरह उनका खून नहीं चूसते। यह बात सोमवार को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने मीडिया से बातचीत में कांग्रेस नेता दिनेश गुर्जर की मुख्यमंत्री चौहान के बारे में की गई टिप्पणी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कही।उद्योगपति मुख्यमंत्री ने गरीबों का हक छीना प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री चौहान गरीब परिवार और किसान के बेटे होने के कारण ही मुख्यमंत्री बने। गरीब किसान के बेटे हमारे मुख्यमंत्री जी ने गरीबों को मकान देने, प्रतिभावान छात्रों की फीस भरने जैसे काम किए, जबकि उद्योगपति मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने शासन के दौरान जनहितैषी योजनाएं बंद करके गरीबों का हक छीन लिया था। उन्होंने कहा कि यही कांग्रेस की मानसिकता है। शर्मा ने कहा कि उद्योगपति कमलनाथ ने कभी गांव, खेत, धूप और धूल नहीं देखी, वे  गरीबों का दर्द क्या जानें। श्री शर्मा ने कहा कि कमलनाथ जब छिंदवाड़ा आए थे, तो खाली थैला लेकर आए थे। गरीबों का खून चूसकर उद्योगपति बन गए। प्रदेश के गरीबों के साथ छल किया, भ्रष्टाचार किया और आज अरबपति बन गए हैं।लोकतंत्र के हिमायती होने का ढोंग न करें कमलनाथशर्मा ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ अब ये दुहाई दे रहे हैं कि आने वाला चुनाव लोकतंत्र को बचाने का चुनाव है। जबकि कांग्रेस के ही वरिष्ठ नेता डॉ. गोविंद सिंह कहते हैं कि कमलनाथ के निर्णयों से कांग्रेस का आंतरिक लोकतंत्र खत्म हो गया है। यही नहीं, बल्कि इस देश में इमरजेंसी लगाकर इंदिरा गांधी जी के साथ लोकतंत्र की हत्या की योजना के रणनीतिकार भी कमलनाथ ही थे। उन्होंने कहा कि इमर्जेंसी में स्व. राजामाता जी को भी 19 महीने जेल में काटना पड़े थे, जिनकी हम आज जन्म शताब्दी मना रहे हैं। शर्मा ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया जी ने जो कदम उठाया है, वह कमलनाथ जी को प्रदेश से बोरिया-बिस्तर समेट कर जाने पर मजबूर कर देगा।सिंधिया जी ने जमीन खिसका दी, इसलिए अनर्गल बयानबाजी कर रहे कांग्रेसीशर्मा ने कहा कि कमलनाथ ने वल्लभ भवन को दलाली का अड्डा बना दिया था। उन्होंने लोकतांत्रिक तरीके से चुने गए जनप्रतिनिधियों का अपमान किया और आज भी कर रहे हैं। उन्हें हमेशा पैसा दिखता है, इसलिए उन्होंने दिग्विजयसिंह के इशारे पर मध्यप्रदेश में खरीद-फरोख्त और और दबाव की राजनीति का काम शुरू किया। इसे भारतीय जनता पार्टी ने रोका। सिंधिया जी ने कमलनाथ सरकार की जमीन खिसका दी और कांग्रेस को सत्ता से बाहर जाना पड़ा। अब अपना अस्तित्व खतरे में नजर आ रहा है तो कमलनाथ और दिग्विजयसिंह सिंधिया जी के खिलाफ अनर्गल बयानबाजी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सिंधिया ने कांग्रेस में रहते हुए भी राम मंदिर, सीएए, धारा-370 की समाप्ति का समर्थन किया और ये संस्कार स्व. राजामाता जी के समय से ही उनके भीतर थे, जो अब मुखरित हुए हैं। शर्मा ने कहा कि जनता ने आज जीतू पटवारी, कमलनाथ और कांग्रेस के नेतृत्व को आईना दिखा दिया है कि कांग्रेस की सरकार ने मध्यप्रदेश में क्या काम किया है।

Dakhal News

Dakhal News 12 October 2020


gwalior, Rajmata removed, unjust government first , Jyotiraditya removed, Shivraj

ग्वालियर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को राजमाता स्व. विजयराजे सिंधिया के जन्म शताब्दी वर्ष के अवसर पर उनकी स्मृति में 100 रुपये के सिक्के का विमोचन किया। इस वर्चुअल कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री नरेंद्रसिंह तोमर, ज्योतिरादित्य सिंधिया समेत अनेक मंत्रियों, जनप्रतिनिधियों, पार्टी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने ग्वालियर से सहभागिता की।   कार्यक्रम को ग्वालियर से संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि श्रद्धेय राजमाता जी ने हमेशा अन्याय के खिलाफ  आवाज उठाई और जब 1967 में कांग्रेस की सरकार ने प्रदेश की जनता के साथ अन्याय किया तो उन्होंने उस सरकार को जमीन दिखा दी। वहीं फिर से कांग्रेस ने प्रदेश में कुशासन दिया तो ज्योतिरादित्य सिंधिया ने आवाज उठाई और सरकार को गिराकर राज्य में नई सरकार बनवाई।    बंधन वाटिका में आयोजित इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि श्रद्धेय राजमाता जी भले ही राजघराने की थीं, लेकिन सेवा का प्रतीक थीं और उन्होंने हमेशा अन्याय के खिलाफ  संघर्ष किया। जब 1967 में प्रदेश की जनता के साथ कांग्रेस की सरकार ने अन्याय किया तो उन्होंने इस सरकार को गिराने में देर नहीं की। उसी प्रकार स्व. माधवराव ने अन्याय के खिलाफ आवाज उठाकर विकास कांग्रेस बनाई और अब ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रदेश को कांग्रेस के कुशासन मुक्ति दिलाकर नई सरकार बनाने में योगदान दिया है। उन्होंने कहा कि जब 1971 में पूरे देश में इंदिरा लहर थी और उस समय स्व. माधवराव जी भी राजमाता के साथ जनसंघ में थे, लेकिन उस कांग्रेस की लहर में भी पूरे मध्य भारत क्षेत्र में 11 सीटें जीतकर जनसंघ को दी थीं। आज श्रद्धेय राजमाता जी जरुर प्रसन्न होंगी कि पूरा सिंधिया परिवार भाजपा में है और ज्योतिरादित्य सिंधिया उनके अधूरे कामों को पूरा करने के लिए पार्टी और सरकार के साथ जुड़े हैं।    मुख्यमंत्री ने कहा कि श्रद्धेय राजमाता जी केवल एक परिवार की नहीं बल्कि लाखों लोगों की मां थी और लोगों के दिलों में स्थापित थीं। उन्होंने एक प्रसंग को याद करते हुए बताया कि जब नर्मदा नदी में बाढ़ आई तो उनका गांव भी डूब गया। उस समय राहत देने न तो प्रशासन पहुंचा और न ही सरकार, लेकिन राजमाता जी लोगों के लिए राहत सामग्री लेकर पहुंच गईं। भाजपा का आज जो विशाल वट वृक्ष है, उसमें श्रद्धेय राजमाता जी के साथ ठाकरे जी व अटलजी का अतुलनीय योगदान है और ऐसी ममतामयी, स्नेहमयी दयावान मां को स्मरण करके हम सभी लोग श्रृद्धांजलि अर्पित कर रहे हैं।    कार्यक्रम में केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि श्रद्धेय राजमाता जी के जन्म शताब्दी वर्ष पर भारत सरकार 100 रुपए का स्मारक सिक्का जारी करके उनके योगदान को याद कर रही है। उन्होंने कहा कि देश में कई रियासतें थीं और कई राजमाताएं और महारानियां थीं, लेकिन देश में आजादी और लोकतंत्र आने के बाद जो काम श्रद्धेय राजमाता विजयाराजे जी ने किए, जिससे वे ऐसी लोकप्रिय हुईं कि दूसरे राजघराने उनके पासंग भी नहीं हैं।    कार्यक्रम में राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने श्रद्धेय राजमाता जी को याद करते हुए कहा कि शताब्दी समारोह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उनके योगदान को चिर स्थायी बनाने के लिए जो स्मारक सिक्का जारी किया है, वो केवल देश के लोगों को नहीं, बल्कि मध्य प्रदेश और ग्वालियर-चंबल के लोगों को प्रेरणा देता रहेगा। श्रद्धेय आजी अम्मा जी (राजमाता विजयाराजे सिंधिया) ने जीवन भर गरीबों, खासतौर से महिलाओं के हितों के लिए संघर्ष किया। श्रद्धेय कुशाभाऊ ठाकरे जी, अटलजी के साथ मिलकर देश, प्रदेश और ग्वालियर के उत्थान का लक्ष्य बनाया। अब प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राजमाता जी के आदर्शों पर चलते हुए प्रदेश का विकास करने में जुटे हुए हैं।    कार्यक्रम की संयोजक और पूर्व मंत्री माया सिंह ने कहा श्रद्धेय राजमाता जी ने महिलाओं को मजबूत बनाने की दिशा में हर कदम उठाए। उन्होंने अटलजी के साथ मिलकर भाजपा का निर्माण किया और महिलाएं राजनीति में आएं, इसके लिए महिला मोर्चा का गठन करके लाखों महिलाओं को पार्टी से जोड़ा। राजमाता जी ने हमेशा बेटियों को पढ़ाने के लिए प्रेरित किया। उनका कृतित्व इतना महान है कि इसका पता ऐसे चलता है कि भारत सरकार उनके योगदान पर स्मारक सिक्का जारी कर रही है।    कार्यक्रम के पहले मुख्यमंत्री ने बंधन वाटिका में श्रद्धेय राजमाता जी के जीवन पर आधारित एक चित्र प्रदर्शनी का शुभारंभ किया। इस कार्यक्रम में भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रभात झा, ग्वालियर सांसद विवेक नारायण शेजवलकर, प्रदेश सरकार के मंत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह, मंत्रीगण श्रीमती इमरती देवी, प्रद्युम्न सिंह तोमर, भारत सिंह कुशवाह, पूर्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता, गौरीशंकर बिसेन, विधायक अजय बिश्नोई, प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर, ग्रामीण जिलाध्यक्ष कौशल शर्मा, शरद गौतम, महेश उमरैया, श्रीमती खुशबू गुप्ता, श्रीमती सुमन शर्मा सहित महिला मोर्चा की कार्यकता उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 12 October 2020


indore,240 boxes, liquor found , BJP leader, police arrested

इंदौर। इंदौर जिले के सांवेर विधानसभा में होने वाले उपचुनाव के पहले पुलिस ने बीती रात 240 पेटी शराब के साथ भाजपा नेता एवं पूर्व सरपंच घमश्याम खीची को गिरफ्तार किया है। खुड़ैल थाना क्षेत्र के सेमलियाचाऊ में कांग्रेसियों की शिकायत के बाद 240 पेटी शराब जब्त की गई। अवैध शराब जब्त होने पर कांग्रेस का कहना है कि मंत्री तुलसी सिलावट और जिला भाजपा अध्यक्ष राजेश सोनकर के सबसे करीबी समर्थक घनश्याम खींची है, जिनके गोदाम से यह 240 पेटी शराब जब्त हुई है।   पुलिस के अनुसार, मुखबिर से सूचना मिली थी कि खुड़ैल थानांर्गत सेमल्याचाऊ में एक व्यक्ति के घर में बड़ी मात्रा में शराब उतारी गई है। इस सूचना पर क्राइम ब्रांच की टीम ने खुड़ैल पुलिस को साथ लिया और यहां रहने वाले घनश्याम पुत्र धन्नालाल खिंची के घर पर दबिश देकर कमरों की तलाशी ली तो एक कमरे में छिपाकर रखी गई लाखों रुपये कीमत की 240 पेटी शराब बरामद की गई। उक्त शराब के संबंध में घनश्याम पुलिस की पूछताछ में कोई संतोषनजक जवाब नहीं दे सका तो उसे पुलिस ने गिरफ्त में ले लिया।    मामले में कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि भाजपा नेता घनश्याम खींची को जहां पुलिस ने आरोपित बनाया, वहीं उनके दोनों पुत्रों को भाजपा नेताओं के दबाव में छोड़ दिया गया। जिला कांग्रेस अध्यक्ष सदाशिव यादव का कहना है कि अब पुलिस उसमें नया खेल कर रही है कि घनश्याम खींची और उनके पुत्रों के कहने पर गोडाउन किराये का एग्रीमेंट देवास के दो के नाम करने का खेल किया जा रहा है। यह सब मंत्री और जिला भाजपा अध्यक्ष के इशारे पर किया जा रहा है। इधर खीची के पुत्रों का भी यही कहना था कि हमने गोडाउन देवास के दो लोगों को किराये पर देकर एग्रीमेंट किया हुआ है। एक अभी देवास में रह रहा है और दूसरा अभी इसी गोडाउन में रह रहा था।

Dakhal News

Dakhal News 10 October 2020


khargon, Fraud, former Agriculture Minister, Sachin Yadav, miscreant transfers

खरगोन। मप्र की पूर्ववर्ती कमलनाथ सरकार में कृषि मंत्री रहे कसरावद से कांग्रेस विधायक सचिन यादव धोखाधड़ी का शिकार हो गए हैं। अज्ञात आरोपित ने धोखे से उनके बैंक खाते से 20 लाख रुपये पार कर दिए। रकम निकलने का मैसेज मिलने पर उन्होंने तत्काल बैंक और पुलिस को फर्जीवाड़े की सूचना दी। जिसके बाद पुलिस आरोपित जालसाज का पता लगाने में जुट गई है।   जानकारी अनुसार, अज्ञात बदमाश ने धोखाधड़ी से पूर्व कृषि मंत्री सचिन यादव के खरगोन एसबीआई बैंक शाखा सब्जी मंडी से फर्जी फोन कर 20 लाख रुपये की राशि ट्रांसफर करवाई। सचिन यादव की निमाड़ मोटर्स फर्म के तीन खातों का लेटर भेज, फोन से बैंक मैनेजर को राशि ट्रांसफर करने का फोन लगाकर धोखाधड़ी की। इतना ही नहीं आरोपित ने मोबाइल पर सचिन यादव बनकर फोन लगाया। सचिन यादव को रकम निकासी का मैसेज मिलने के बाद धोखे की जानकारी लगी। उन्होंने तत्काल बैंक एवं पुलिस को सूचना दी। शनिवार को मामला सामने आने के बाद बैंक एवं पुलिस की मदद से साढ़े तीन लाख रिकवर कर लिये गए हैं, जबकि साढ़े सोलह लाख की राशि की बरामदगी और बदमाशों को पकड़ने में पुलिस जुटी हुई है।

Dakhal News

Dakhal News 10 October 2020


anuppur, Kamal Nath, government cheated ,Union Minister Kulaste

अनूपपुर। कमलनाथ जी, प्रदेश की जनता ने आपके वचनों पर भरोसा कर सत्ता आपको दी। अपने दिये गये वचनों को भंग कर प्रदेश की जनता को धोखा दिया। अपने 15 महीने के कार्यकाल में केवल आपने भाजपा कार्यकर्ताओं के विरुद्ध बदले की कार्यवाही की। यह बात शुक्रवार शाम अनूपपुर में आयोजित भाजपा कार्यकर्ताओं के मंडल सम्मेलन को संबोधित करते हुए केन्द्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने कही।   उन्होंने कहा कि मप्र में 3 नवम्बर को होने वाले 28 सीटों पर उप चुनाव ऐतिहासिक तथा भाजपा सरकार को स्थिरता देने वाला चुनाव होगा। अनूपपुर ग्रामीण मंडल के 7 सेक्टर के कार्यकर्ताओं का यह सम्मेलन बहुत महत्वपूर्ण है। चुनाव की दृष्टि से अनूपपुर के सभी 7 मंडल के कार्यकर्ता इतिहास रचने जा रहे हैं। प्रदेश में जब भी उप चुनाव हुए हैं, हमारे कार्यकर्ता पूरे मनोयोग से चुनाव जीतने के लिये कार्य करते हैं। आज हम सत्ता में हैं लेकिन अल्पमत में हैं। बिसाहूलाल सिंह ने भाजपा कार्यालय जा कर इस्तीफा दिया। इसलिये इस उप चुनाव का बहुत महत्व है। हमारा यह कर्तव्य है कि प्रदेश में सर्वाधिक मतों से अनूपपुर चुनाव में विजय सुनिश्चित करें।   पूर्व मंत्री व उप चुनाव प्रभारी राजेन्द्र शुक्ला ने कांग्रेस पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि पन्द्रह माह के शासन काल में अपना परिवार ना संभाल पाने वाली कांग्रेस प्रदेश में सुशासन की बात करती है। कांग्रेस ने विद्वेष वश शिवराज सरकार की तमाम कल्याणकारी योजनाओं को बन्द कर दिया। इनके 15 माह के कार्यकाल में प्रदेश की गरीब जनता त्राहि- त्राहि कर उठी।  इन्होंने गरीबों से कफन तक छीन लिया। भाजपा कार्यकर्ताओं पर बदले की भावना से कार्यवाही की गयी। मप्र में पहली बार 28 विधानसभाओं में उप चुनाव हो रहे हैं। यह हमारे आस्तित्व की लड़ाई है, सरकार को स्थिरता देने की लड़ाई है। उप चुनाव में विजय प्राप्त करने के बाद प्रदेश की भाजपा जन कल्याण के शेष कार्य,सभी योजनाओं को सफलता पूर्वक लागू कर पाएगी। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं की एकजुटता के दम पर हम ऐतिहासिक मतों से चुनाव जीतेंगे।   पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक रामलाल रौतेल ने कहा कि जब भी देश एवं प्रदेश में भाजपा की सरकार बनती है तो आम जनता में यह भरोसा होता है कि अब जन कल्याणकारी योजनाओं का कुशल क्रियान्वयन होगा। बिसाहूलाल सिंह ने भाजपा की सदस्यता की है, वे इस क्षेत्र के समग्र विकास के लिये काम करेगें। आम जनता से उन्होंने बिसाहूलाल सिंह को प्रचण्ड मतों से विजयी बनाने की अपील की। जिलाध्यक्ष ब्रजेश गौतम ने कहा कि 2018 मे प्रदेश में बनी कांग्रेस की लंगडी लूली सरकार ने सभी जन कल्याणकारी योजनाओं को बन्द कर दी। पन्द्रह महीने में कांग्रेस ने किसान, मजदूर, छात्र, व्यवसायी सभी से छल किया। इस दौरान उप चुनाव मिडिया प्रभारी मनोज द्विवेदी सहित अन्य उपस्थित रहे।

Dakhal News

Dakhal News 9 October 2020


bhopal, Shivraj does not ,trust anyone, Supari resolutions, Congress

भोपाल। मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने कहा है कि राजनीतिक इतिहास में पहली बार भाजपा में ऐसा अविश्वास देखने को मिल रहा है कि शिवराज विभिन्न उपचुनाव वाले क्षेत्रों में आयोजित बूथ सम्मेलनों में जाकर कार्यकर्ताओं व अपने नेताओं को मंत्रोचार के साथ ‘‘सुपारी संकल्प" दिला रहे हैं कि वह पार्टी के लिए ईमानदारी, निष्ठा से काम करेंगे।   सलूजा ने बताया कि इसके पीछे वास्तविकता यह है कि कांग्रेस से गद्दारी कर सिंधिया समर्थक भाजपा में आए हैं, इसलिए उन पर शिवराज जी व भाजपा को आज भी विश्वास नहीं हो पा रहा है। शिवराज जी व भाजपा का मानना है कि जिन्होंने कांग्रेस से गद्दारी की है, वह भाजपा के साथ कैसे ईमानदारी से रहेंगे ?इसलिए इस तरह का ‘‘सुपारी संकल्प’’ दिलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि साथ ही भाजपा में जिस तरह से बिकाऊ-टिकाऊ का झगड़ा सामने आ रहा है। बिकाऊओं के आने के बाद से सारे टिकाऊ नाराज हैं तो शिवराज जी को यह भी लग रहा है कि भाजपा का वह समर्पित कार्यकर्ता, जिसने अपने खून-पसीने से पार्टी को सींचा  है, वह इन बिकाऊओं को उपचुनावों में घर ना भेज दे। इसलिए अपने निष्ठावान, समर्पित कार्यकर्ताओं पर भी अविश्वास कर उन्हें भी इस तरह का ‘‘सुपारी संकल्प’’ दिलाया जा रहा है।   सलूजा ने तंज कसते हुए कहा कि राजनीति के इतिहास में यह पहली घटना है, जब खुद मुख्यमंत्री को अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं व अपने नेताओं पर भी विश्वास नहीं हो पा रहा है और उनसे धार्मिक आधार पर संकल्प दिलाकर यह वादा लिया जा रहा है कि वे पार्टी के लिए निष्ठा, समर्पण और ईमानदारी से काम करेंगे। कांग्रेस का कहना है कि यह ‘‘सुपारी संकल्प" भाजपा के उन लाखों इमानदार कार्यकर्ताओं का अपमान है, जो वर्षों से पार्टी के लिए समर्पण भावना से काम कर रहे हैं। साथ ही यह संकल्प उन सिंधिया समर्थकों की भी वास्तविकता उजागर कर रहा है कि भले उन्होंने कांग्रेस से गद्दारी कर भाजपा का दामन थाम लिया है लेकिन आज भी भाजपा का उन पर विश्वास नहीं है।

Dakhal News

Dakhal News 9 October 2020


bhopal, Motherly condolences ,Cabinet Minister ,Mahendra Singh Sisodia

भोपाल। पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री महेन्द्र सिंह सिसौदिया माताजी इंद्रादेवी सिसोदिया का शुक्रवार सुबह निधन हो गया। मंत्री सिसौदिया ने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दी और कहा कि अत्यंत दु:ख के साथ सूचित करना पड़ रहा है कि मेरी पूज्य माताजी इंद्रादेवी सिसोदिया आज नश्वर शरीर त्याग कर वैकुण्ठ धाम को चली गई हैं। उन्होंने आग्रह किया है कि कोरोना के चलते सुरक्षा की दृष्टि से अंतिम संस्कार में शामिल न हों, यही मेरी "मां" को सच्ची श्रद्धांजलि होगी।   मंत्री सिसौदिया के माताजी के निधन पर मप्र के सीएम शिवराज सिंह चौहान और गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने गहरा दुख व्यक्त किया है। सीएम शिवराज ने माताजी को श्रद्धांजलि देते हुए अपने ट्वीट में कहा ‘हमारे कैबिनेट साथी श्री @Iamsisodiav जी की पूज्य माताजी श्रीमती इंद्रादेवी सिसोदिया जी के निधन का समाचार सुनकर अत्यंत दु:ख हुआ। ईश्वर से दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान और परिजनों को यह गहन दु:ख सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं।    गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने अपने शोक संदेश में कहा ‘कैबिनेट में मेरे सहयोगी श्री महेंद्र सिंह सिसोदिया जी की माता जी श्रीमती इंद्रादेवी सिसोदिया जी के निधन का समाचार सुनकर मन दुखी है। ईश्वर से प्रार्थना है कि दिवंगत पुण्यात्मा को शांति प्रदान करें और परिवार को यह दुख सहन करने की शक्ति प्रदान करें।

Dakhal News

Dakhal News 9 October 2020


burhanpur, BSC and BCom classes ,tribal children, Chief Minister

बुरहानपुर, 08 अक्टूबर (हि.स.)। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान गुरूवार बुरहानपुर जिले के धूलकोट पहुंचे। यहां उन्होंने कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते कहा कि धूलकोट के आदिवासी बच्चों के लिए बीएससी व बीकॉम की क्लास भी चालू की जाएगी। इंदौर में पढ़ने वाले बच्चों के लिए कोचिंग का खर्च और भवन का किराया शिवराज सिंह चौहान की सरकार वहन करेगी।   सीएम ने महत्वपूर्ण घोषणा करते हुए कहा कि 2005 के पहले के कब्जेधारियों को पट्टे दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि वन मंत्री विजय शाह को निर्देश दिए जा चुके हैं कि पट्टा वितरण में कोई कमी न आए। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पूर्ववर्ती कमलनाथ सरकार व कांग्रेस को गद्दार बताया। उन्होंने कहा कि किसानों की कर्जमाफी, बेरोजगारी भत्ता, कन्यादान योजना में 51 हजार देने के वादे को कमलनाथ सरकार ने पूरा नहीं किया। बीजेपी की सरकार की योजनाओं को बंद किया। हमने दोबारा चालू किया। कमलनाथ की सरकार में गरीबों के लिए समय नही था। दलालों के लिए दरवाजे खुले थे। कमलनाथ की सरकार बेईमानों की सरकार थी।   इस बार चूक हुई तो पछताना पड़ेगा -सांसद इस दौरान सांसद नंदकुमार सिंह चौहान ने कहा कि इस बार हमें चूकना नहीं है। यह चुनाव शिवराजसिंह चौहान को मुख्यमंत्री बनाए रखने का है। अगर हम यहां चूक गए तो पछताना पड़ेगा, क्योंकि मप्र में कमलनाथ की सरकार ने 15 महीने के कार्यकाल में ही प्रदेश को विकास से कोसो दूर कर  दिया। इस बार हमें यह गलती नहीं करना है। भाजपा प्रत्याशी सुमित्रा कास्डेकर ने कहा कि भाजपा में विकास की बात होती है इसलिए कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आई हूं। यहां आते ही नेपानगर अस्पताल के लिए राशि स्वीकृत हुई। कईं सडक मार्गों की स्वीकृति मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने एक आग्रह पर की। इसलिए इस बार हमें मौका दें। नेपानगर विधानसभा के विकास में कोई कमी नहीं आने दी जाएगी।     समर्थकों के साथ कईं कांग्रेसी भाजपा में हुए शामिल मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कांग्रेस से भाजपा में आए सुमित्रा कास्डेकर के सैकडों समर्थकों को भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराई। पूर्व विधायक सुमित्रादेवी कास्डेकर के निजी सहायक रहे जितेंद्र प्रजापति के अलावा कांग्रेस में कईं पदों पर रहे सचिन मंडलकर सहित अन्य कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। इस दौरान सीएम शिवराजसिंह चौहान ने उनका स्वागत  किया।   आदिवासी क्षेत्रों से सीएम की सभा सुनने पहुँचे आदिवासी मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की सभा अचानक हुई थी, लेकिन इसके बावजूद सभा सुनने के लिए धूलकोट सहित आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों से काफी संख्या में आदिवासी यहां सभा सुनने पहुंचे। इस दौरान सीएम ने मंच से 2005 से पहले आदिवासी भूमि पर काबिज कब्जाधारियों को पट‌‌्टे  दिए जाने की घोषणा की।     नेपानगर की दशकों पुरानी समस्या का होगा निराकरण   मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को पूर्व मंत्री अर्चना चिटनिस ने नेपानगर की दशकों पुरानी समस्या 300 एकड़ वन भूमि का नगर पालिका नेपानगर को हस्तांतरित करने एवं वन भूमि को राजस्व भूमि घोषित किए जाने हेतु पत्राचार किया था। जिसके परिणामस्वरूप नेपानगर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम धूलकोट में कार्यकर्ताओं के सम्मेलन को संबोधित करने आए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दशकों पुरानी समस्या के निदान करते हुए और अपनी स्वीकृति देते हुए जल्द से जल्द इसे अमलीजामा पहनाए जाने की बात कही। जिससे नेपानगर वासियों ने हर्ष व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान एवं पूर्व मंत्री अर्चना चिटनिस का धन्यवाद-आभार ज्ञापित किया।     कार्यक्रम की प्रमुख झलकियाँ   1. आदिवासी समाज ने मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को तीर कमान भेंट किये।   2. शिवा बाबा समिति ने मुख्यमंत्रीजी का आभार व्यक्त किया।   3. छात्रों की मांगों पर अगले सत्र से बीकॉम, बीएससी की सुविधा धुलकोट क्षेत्र में मिलेंगी। 4. पट्टा धारियों को मिलेंगा मुख्यमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ।

Dakhal News

Dakhal News 8 October 2020


bhopal, Congress counter-attack ,Minister Narottam Mishra

  भोपाल। प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को चेतुआ बताए जाने वाले बयान पर कांग्रेस ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। कांग्रेस नेता नरेंद्र सलूजा ने पलटवार करते हुए कहा कि पूर्व सीएम कमलनाथ को चेतुआ बोलना नरोत्तम मिश्रा के मुकाबले कमलनाथ का कद बहुत बड़ा है। अपने छोटे कद से कमलनाथ के बारे में टिप्पणी करने वाले नरोत्तम मिश्रा यह जान लें कि जिस चेतुआ शब्द का वह जिक्र कर रहे हैं और कह रहे है कि फसल कटाई के समय ही वो आता है और गायब हो जाता है तो वो चेतुआ तो शिवराज व खुद नरोत्तम मिश्रा है, जो कमलनाथ की 15 माह की बोयी फसल को काटने का काम कर रहे है।   सलूजा ने निशाना साधते हुए कहा कि नरोत्तम मिश्रा कह रहे है कि कमलनाथ चुनाव के समय ही नजर आते हैं तो वह यह जान ले कि कमलनाथ पिछले 40 वर्ष से सांसद हैं, लगातार सर्वाधिक बार सांसद चुनने का रिकॉर्ड उनके नाम है। यदि वे ऐसे जनप्रतिनिधि होते जो सिर्फ चुनाव के समय ही नजर आते हैं तो शायद जनता 40 वर्ष तक उनको चुनाव नहीं जिताती, ऐसे जनप्रतिनिधि को तो जनता कभी का घर भेज देती। जिस तरह शिवराज व भाजपा को जनता ने घर भेज दिया। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि एक 40 वर्ष तक सांसद रहने वाले व्यक्ति को चेतुआ बताना निश्चित तौर पर मंत्री नरोत्तम मिश्रा के मानसिक दिवालियापन का सबूत है।  

Dakhal News

Dakhal News 8 October 2020


shivpuri, Villagers hear ,BJP candidate ,seeking votes

शिवपुरी। मप्र की राजनीति में अब बिकाऊ वर्सेस टिकाऊ का मुद्दा जोर-शोर से उठने लगा है। इसके चलते शिवपुरी जिले के पोहरी विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी और सिंधिया समर्थक सुरेश राठखेड़ा को ग्रामीणों ने खरी-खोटी सुना दी। पोहरी विधानसभा सीट के भौराना गांव के ग्रामीणों द्वारा पीडब्ल्यूडी राज्य मंत्री और भाजपा प्रत्याशी सुरेश राठखेड़ा को चौपाल पर जमकर खरी-खोटी सुनाए जाने का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें भाजपा प्रत्याशी सुरेश राठखेड़ा की जमकर क्लास ली जा रही है। मंत्री भी ग्रामीण की बात को सुन रहे हैं और सफाई देते नजर आ रहे हैं। पोहरी विधानसभा सीट के जिस गांव का यह वीडियो है वह बुधवार की शाम का बताया जा रहा है।   वीडियो में भाजपा प्रत्याशी पर झल्लाते हुए एक ग्रामीण ने उनसे ये पूछ लिया कि चुनाव जीतने के बाद आज तक गांव की तरफ नहीं देखा। अब उपचुनाव आ गए हैं तो फिर आ गए, आज पता चला कि, आप हमारे विधायक हैं। ग्रामीण के सवाल पर पीडब्ल्यूडी मंत्री और भाजपा प्रत्याशी वीडियो में सफाई देते हुए दिख रहे हैं। यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ है। गौरतलब है कि पोहरी से भाजपा प्रत्याशी बनाए गए सुरेश राठखेड़ा ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक नेता हैं और कांग्रेस से विधायक पद से त्यागपत्र देकर भाजपा में आए हैं। भाजपा ने पोहरी विधानसभा सीट से उपचुनाव के लिए इन्हें अपना उम्मीदवार बनाया है। 

Dakhal News

Dakhal News 8 October 2020


bhopal, MP by-election,BSP released, third list, candidates declared, nine seats

भोपाल। मध्यप्रदेश में विधानसभा की रिक्त 28 सीटों पर होने वाले उपचुनावों में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) भी पूरी ताकत के साथ मैदान में उतर आई है। पार्टी ने बुधवार को अपनी सूची जारी कर दी है, जिसमें नौ सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नाम घोषित किये गये हैं।    बसपा प्रदेश अध्यक्ष इंजी. रमाकान्त पिप्पल द्वारा बुधवार को पार्टी सुप्रीमो बहन मायावती के आदेश पर जारी की गई सूची के अनुसार, दिमनी विधानसभा क्षेत्र से राजेन्द्र सिंह कंषाना और सुमावली से राहुल डंडोतिया को उम्मीदवार घोषित किया गया है, जबकि अशोकनगर से स्ट्रोम बिलिम भंडारी और मुंगावली से वीरेंद्र शर्मा को टिकट दिया गया है। वहीं, हाट पिपलिया से राजेश नागर, बदनावर से ओम प्रकाश मालवीय, सुरखी से गोपाल प्रसाद अहिरवार, नेपानगर से भलसिंह पटेल और अनूपपुर से सुशील सिंह परस्ते को बसपा ने अपना उम्मीदवार बनाया है।   गौरतलब है कि बसपा इससे पहले दो सूची जारी कर चुकी है। पहली सूची में आठ और दूसरी में 10 सीटों पर उम्मीदवारों के नाम घोषित किये गये थे। इस तरह अब तक 28 में से 27 सीटों पर बसपा अपने उम्मीदवार घोषित कर चुकी है। अब एक सीट पर उम्मीदवार की घोषणा होना बाकी है। वहीं, भाजपा ने मंगलवार की रात सूची जारी कर सभी सीटों पर अपने उम्मीदवार घोषित कर दिये हैं, जबकि कांग्रेस ने भी तीन सूचियों में अब तक 27 सीटों पर अपने उम्मीदवारों घोषित कर चुकी है। हालांकि, प्रदेश में मुख्य मुकाबला भाजपा और कांग्रेस के बीच ही होना है, लेकिन बसपा के मैदान में आने से कई सीटों पर त्रिकोणीय मुकाबला देखने को मिल सकता है।

Dakhal News

Dakhal News 7 October 2020


rewa, Will complete ,Vindhya

रीवा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को रीवा में 150 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित सुपर स्पेशिलिटी हास्पिटल का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने समारोह में 399 करोड़ रुपये की लागत के निर्माण कार्यों का लोकार्पण तथा शिलान्यास किया इस अवसर पर उन्होंने कहा कि विन्ध्य क्षेत्र के विकास में जो कसर रह गई है उसे तीन साल में पूरा करेंगे। विन्ध्य क्षेत्र की जनता का आशीर्वाद नहीं होता तो शिवराज सिंह मुख्यमंत्री भी नहीं बनते। पिछले 15 वर्षों में विन्ध्य क्षेत्र में बाणसागर बांध, सोलर पावर प्लांट, अच्छी सड़कों, मुकुंदपुर व्हाइट टाइगर सफारी सहित विकास की अनेक सौगातें दी गई हैं। मुख्यमंत्री ने विन्ध्य की धरा और जनता को मंच पर दंडवत प्रणाम करके आभार व्यक्त किया।     मुख्यमंत्री ने कहा कि सुपर स्पेशलिटी हास्पिटल से रीवा ही नहीं पूरे विन्ध्य को आधुनिक उपचार सुविधाओं की सौगात मिली है। इस हास्पिटल में अब ओपन हार्ट सर्जरी सहित अनेक गंभीर रोगों का उपचार हो रहा है। इसमें वर्तमान में कॉर्डियोलॉजी, कॉर्डियो वस्कुलर थोरेंसिक सर्जरी, न्यूरोलॉजी, न्यूरो सर्जरी, नेफ्रोलॉजी, यूरोलॉजी, नवजात शिशु उपचार इकाई, एनेस्थीसिया तथा रेडियो डायग्नोसिस विभाग संचालित हैं। स्वर्गीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना से इस हास्पिटल का निर्माण किया गया है। अटल जी के नमन तथा प्रधानमंत्री श्री मोदी जी के प्रति आभार व्यक्त किये बिना यह समारोह अधूरा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में देश कोरोना से सक्षमता से लड़ाई लड़ रहा है। इस समय प्रतिदिन 30 हजार से अधिक कोरोना टेस्ट हो रहे हैं। हम कोरोना से हर हाल में जीतेंगे।   मुख्यमंत्री ने कहा कि रीवा का तेजी से विकास हो रहा है। मेरी कामना है कि रीवा विकास के मामले में इंदौर, भोपाल से भी आगे निकल जाये। बाणसागर बांध का निर्माण पूरा होने के बाद क्षेत्र में तीन लाख एकड़ में सिंचाई हो रही है तथा शीघ्र ही दो लाख एकड़ क्षेत्र में सिंचाई की सुविधा होगी। विन्ध्य का किसान अब पंजाब के किसानों को पीछे छोडऩे के लिये आतुर है।   विधायक राजेन्द्र शुक्ल मेहनती और उत्साही हैं : हर्षवर्धन   इस अवसर पर केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने दिल्ली से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़ते हुए अपने सम्बोधन में कहा कि रीवा एवं विन्ध्य क्षेत्र के लिये सुपर स्पेशलिटी अस्पताल उच्च स्तरीय स्वास्थ्य सुविधाओं के लिये एक सौगात है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सच्चे जनसेवक के तौर पर प्रदेश की जनता की सेवा कर रहे हैं। उन्होंने रीवा सांसद की अपने क्षेत्र के विकास के लिये प्रतिबद्धता की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि रीवा विधायक राजेन्द्र शुक्ल मेहनती और उत्साही हैं जो हमेशा अपने क्षेत्र के विकास के लिये प्रयत्नशील रहते हैं जिसका परिणाम है कि रीवा में परिवर्तन हो रहा है। डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि कोरोना के खिलाफ प्रधानमंत्री जी शीघ्र ही जागरूकता कार्यक्रम शुरू कर रहे हैं। इसमें मध्यप्रदेश वासियों की भूमिका अहम होगी।   सुपर स्पेशलिटी अस्पताल एक सौगात है : सारंग   प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि रीवा ही नहीं अपितु पूरे विन्ध्य के लिये सुपर स्पेशलिटी अस्पताल एक उपलब्धि है। एम्स के बाद रीवा सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में नवजात शिशुओं की चिकित्सा की सुविधा होगी जो बड़ी उपलब्धि है। मुख्यमंत्री के नेतृत्व में कोरोना के विरूद्ध लड़ाई में काफी काम हुए हैं और इस संकट से हम जल्द से जल्द उबरेंगे। कार्यक्रम में सांसद जनार्दन मिश्र ने कहा कि रीवा जिले के विकास में मुख्यमंत्री चौहान का महत्वपूर्ण योगदान है। रीवा के लिए एम्स जैसी सुविधाओं वाले सुपर स्पेशलिटी अस्पताल एक सौगात है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने पूरी सह्मदयता से रीवा जिले के लिये सुपर स्पेशलिटी अस्पताल हेतु मदद की। उन्होंने अपेक्षा की कि इस अस्पताल के लिये केन्द्र से आर्थिक मदद मिले। सांसद ने कहा कि रीवा जिले में विकास की गंगा बहाने के लिये मुख्यमंत्री जी भागीरथ हैं।     इलाज के लिये अब दिल्ली, नागपुर, मुंबई नहीं जाना पड़़ेगा : राजेन्द्र   पूर्व मंत्री एवं रीवा विधायक राजेन्द्र शुक्ल ने कहा कि सुपर स्पेशलिटी अस्पताल विन्ध्य के लिये एक सौगात है। यहां के लोगों को इलाज के लिये दिल्ली, नागपुर, मुंबई जाना पड़ता था अब उनका इलाज सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में होगा। गरीब लोग भी आयुष्मान योजना का लाभ लेकर इस अस्पताल में नि:शुल्क इलाज करा सकेंगे। उन्होंने कहा कि रीवा में सबसे पहले आउटसोर्स से सीटी स्केन व डायलिसिस, एमआरआई टेस्ट प्रारंभ हुए। रीवा के लिये आज का दिन उतना ही महत्वपूर्ण है जितना महत्वपूर्ण बाणसागर बांध के शुभारंभ का दिवस था। बाणसागर की नहरों से पानी पाकर रीवा जिले के किसान समृद्धशाली हुए हैं। रीवा की पहचान व्हाइट टाइगर सफारी व मेगा सोलर प्लांट से भी है जिस प्लांट की बिजली दिल्ली की मेट्रो ट्रेन के लिये दी जा रही है।

Dakhal News

Dakhal News 7 October 2020


bhopal, BJP organized , planned attack, convoy, Kamal Nath

भोपाल। मध्यप्रदेश मीडिया विभाग के अध्यक्ष जीतू पटवारी, पूर्व मंत्री पीसी शर्मा, मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा और उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने बुधवार को जारी अपने एक संयुक्त बयान में भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की सभाओं में उमड़ रही भारी भीड़, उनकी लोकप्रियता व दिख रही अपनी संभावित हार की बौखलाहट से भाजपा निरंतर उनके व कांग्रेस के खिलाफ साजिश रच रही है। पहले कमलनाथ पर भेदभावपूर्ण तरीक़े से प्रकरण दर्ज किया गया और आज अनूपपुर मैं सभास्थल पर जाते समय रास्ते में उनके काफिले पर भाजपा ने साजिश व षड्यंत्र रच हमला कराया।   कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि अनूपपुर में भाजपा कार्यालय के सामने भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने इक_े होकर पहले काफिले को रोकने का प्रयास किया, नारेबाजी की फिर पत्थरों, बैनर, पोस्टरों से हमला करने का प्रयास किया। यह भाजपा की साजिश है क्योंकि एक दिन पूर्व ही केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर ने भाजपा कार्यकर्ताओं से आह्वान किया था कि वे कांग्रेस को मुंहतोड़ जवाब दें, डरे नहीं, चुप नहीं बैठे। उन्होंने कहा कि प्रदर्शन व हमला करने वाले भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ता थे, इसकी पुष्टि मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अभिलाष पांडे खुद कर चुके हैं। यह भाजपा की कायराना हरकत है। वह मध्य प्रदेश को यूपी-बिहार बनाना चाहती है। मध्य प्रदेश में इस तरह की परंपरा कभी नहीं रही। यहां शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव संपन्न होते हैं लेकिन भाजपा जानबूझकर साजिश व षड्यंत्र रच प्रदेश की फिजा को खराब करना चाहती है, प्रदेश के उपचुनावो को वह हिंसा की आग में झोंकना चाहती है, इसलिए वह निरंतर षड्यंत्र रच रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता यह सब देख रही है। प्रदेश भर के लाखों कांग्रेस जन भी भाजपा की इस हरकत पर चुप नहीं बैठेंगे, वे डरने, दबने, झुकने वाले नहीं हैं, वह भाजपा की इस कायराना हरकत का शांतिपूर्ण ढंग से करारा जवाब देंगे।  

Dakhal News

Dakhal News 7 October 2020


bhopal, BJP organized , planned attack, convoy, Kamal Nath

भोपाल। मध्यप्रदेश मीडिया विभाग के अध्यक्ष जीतू पटवारी, पूर्व मंत्री पीसी शर्मा, मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा और उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने बुधवार को जारी अपने एक संयुक्त बयान में भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की सभाओं में उमड़ रही भारी भीड़, उनकी लोकप्रियता व दिख रही अपनी संभावित हार की बौखलाहट से भाजपा निरंतर उनके व कांग्रेस के खिलाफ साजिश रच रही है। पहले कमलनाथ पर भेदभावपूर्ण तरीक़े से प्रकरण दर्ज किया गया और आज अनूपपुर मैं सभास्थल पर जाते समय रास्ते में उनके काफिले पर भाजपा ने साजिश व षड्यंत्र रच हमला कराया।   कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि अनूपपुर में भाजपा कार्यालय के सामने भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने इक_े होकर पहले काफिले को रोकने का प्रयास किया, नारेबाजी की फिर पत्थरों, बैनर, पोस्टरों से हमला करने का प्रयास किया। यह भाजपा की साजिश है क्योंकि एक दिन पूर्व ही केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर ने भाजपा कार्यकर्ताओं से आह्वान किया था कि वे कांग्रेस को मुंहतोड़ जवाब दें, डरे नहीं, चुप नहीं बैठे। उन्होंने कहा कि प्रदर्शन व हमला करने वाले भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ता थे, इसकी पुष्टि मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अभिलाष पांडे खुद कर चुके हैं। यह भाजपा की कायराना हरकत है। वह मध्य प्रदेश को यूपी-बिहार बनाना चाहती है। मध्य प्रदेश में इस तरह की परंपरा कभी नहीं रही। यहां शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव संपन्न होते हैं लेकिन भाजपा जानबूझकर साजिश व षड्यंत्र रच प्रदेश की फिजा को खराब करना चाहती है, प्रदेश के उपचुनावो को वह हिंसा की आग में झोंकना चाहती है, इसलिए वह निरंतर षड्यंत्र रच रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता यह सब देख रही है। प्रदेश भर के लाखों कांग्रेस जन भी भाजपा की इस हरकत पर चुप नहीं बैठेंगे, वे डरने, दबने, झुकने वाले नहीं हैं, वह भाजपा की इस कायराना हरकत का शांतिपूर्ण ढंग से करारा जवाब देंगे।  

Dakhal News

Dakhal News 7 October 2020


gwalior, Sonia-Rahul, first see, their manifesto ,then protest,Union Minister Tomar

  ग्वालियर। केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा है कि कृषि कानून में किए गए संशोधन से किसानों की आय दोगुना होगी। इन नए कानूनों से सर्वाधिक लाभ किसानों का होगा। इसे लेकर कांग्रेस द्वारा जो दुष्प्रचार किया जा रहा है वह एकदम गलत है क्योंकि वर्ष 2018-19 के लोकसभा चुनाव के पहले कांग्रेस ने अपने घोषणा-पत्र में इन्हीं कानूनों के बदलाव की बात कही थी। ऐसे में सोनिया और राहल गांधी को पहले अपना घोषणा-पत्र देखना चाहिए, तब स्पष्ट हो जाएगा कि दोनों में से कौन गलत है। क्योंकि दोनों सही नहीं हो सकते। यह बात उन्होंने मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत में कही।   केन्द्रीय मंत्री तोमर ने कहा कि जो लोग मोदी सरकार द्वारा बनाए गए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं, मैं उन्हें यह बता देना चाहता हूं कि मोदी सरकार साफ नीयत से काम करती है, किसी स्वार्थ या दबाव से नहीं चलती। आने वाले समय में देश आत्मनिर्भर हो सके, देश की जीडीपी में कृषि क्षेत्र का सर्वाधिक योगदान हो, किसानों की माली हालत सुधरे और उनका जीवनस्तर ऊपर उठ सके, इसके लिए ये सुधारवादी कदम उठाए गए हैं। मोदी सरकार कांग्रेस के विरोध के आगे ना तो झुकेगी और ना इसके कारण रुकेगी। कृषि सुधार कानूनों पर कांग्रेस जो दुष्प्रचार कर रही है उससे उसका गरीब और किसान विरोधी चेहरा देश के सामने आ गया है। यही कारण है कि देश एक भी किसान कांग्रेस और उसके नेता राहुल गांधी के साथ नहीं है।   केन्द्रीय मंत्री ने कमलनाथ पर तंज कसते हुए कहा कि कृषि सुधार कानून संबंधी समिति में कमलनाथ भी मुख्यमंत्री के तौर पर शामिल थे। उन्होंने उस समय इस तरह के कानूनों में संशोधन पर सहमति दी थी। साथ ही कमलनाथ ने आवश्यक वस्तु अधिनियम को समाप्त करने की बात कही थी। यही नहीं स्वामीनाथन आयोग ने अपनी रिपोर्ट में इन तीनों सुधारों की वकालत की। शेतकारी संगठन के प्रमुख शरद जोशी ने किसानों को मंडियों के बंधन से मुक्त करने की बात कही। यूपीए सरकार के प्रधानमंत्री रहे मनमोहन सिंह और कृषि मंत्री रहे शरद पवार ने भी इन सुधारों पर सहमति जताई थी। अब मोदी सरकार ने बिना किसी दबाव के कृषि सुधार के विधेयकों को लागू कर दिया तो कांग्रेस सहित विपक्ष के नेता इन सुधारों को हजम नहीं कर पा रहे हैं।   उपचुनाव के सवाल पर तोमर ने कहा कि ग्वालियर-चंबल की 16 सीटों के साथ प्रदेश की सभी 28 सीटों पर भाजपा के ही प्रत्याशी जीतेंगे। प्रत्याशियों की सूची को लेकर उन्होंने कहा कि एक-दो दिन में इसकी घोषणा हो जाएगी। इस अवसर पर सांसद विवेक शेजवलकर, प्रदेश मीडिया प्रमुख लोकेन्द्र पाराशर, जिलाध्यक्ष  कमल माखीजानी, मीडिया पैनेलिस्ट आशीष अग्रवाल एवं संभागीय मीडिया प्रभारी पवन सेन भी उपस्थित थे।समाप्त होगा बिचौलिया और इंस्पेक्टर राज: कृषि कानून पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने बताया कि एमएसपी एक सीमित समय के लिए होती थी और जब इसके अलावा किसान फसल लेकर मंडी पहुंचता तो वहां के व्यापारी और बिचौलिए एक समूह बनाकर फसल कम दामों पर बेचने पर मजबूर करते थे। अब नए कानून के बाद किसान मंडी के अलावा अपनी फसल कहीं भी बेच सकता है। व्यापारी उसकी फसल खरीदने खेतों तक पहुंचेगे और अच्छे दाम देंगे। यही नहीं मंडी के बाहर फसल बेचने पर कोई टैक्स भी नहीं देना होगा और एक्ट में प्रावधान है कि तीन दिन के भीतर व्यापारी को किसान का फसल का भुगतान करना होगा। अभी तक ऐसा कोई प्रावधान नहीं था। किसानो को अंतरराज्यीय मंच उपलब्ध होगा और ई-मंडियां बनेंगी, जिससे युवाओं को रोजगार मिलेगा और किसान बड़े शहरों में सीधे फसल बेच सकेगा। सबसे बड़ी बात यह है कि किसानों को शोषण के साथ लाइसेंस और इंस्पेक्टर राज से मुक्ति मिलेगी।  

Dakhal News

Dakhal News 6 October 2020


bhopal,Another photo, food minister ,Bisahulal Singh ,went viral, distributing 500 notes

भोपाल। मध्य प्रदेश में इन दिनों विधानसभा उपचुनाव से पहले आरोप प्रत्यारोप की राजनीति जोरों से चल रही है। इस बीच राजनेताओं के फोटो और वीडियों भी खूब वायरल हो रहे हैं। शिवराज सरकार में खाद्य मंत्री बिसाहूलाल सिंह का लोगों को 100 रुपये के नोट बांटने का फोटो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद कांग्रेस ने जमकर निशाना साधा और चुनाव आयोग को शिकायत भी की थी। वहीं अब एक बार फिर मंत्री साहू की एक ओर फोटो वायरल हुई है जिसमें वे 500 का नोट बांटते दिख रहे हैं।     कांग्रेस नेता के के मिश्रा ने अपने सोशल मीडिया हैंडल पर ट्वीट कर एक फोटो साझा की है जिसमें मंत्री बिसाहूलाल फोटो में बिसाहूलाल 500 रुपये का नोट बांटते देखे जा रहे हैं। अपने ट्वीट में के के मिश्रा ने कहा है कि मंत्री बिसाहूलाल को उनकी पार्टी से कुछ ज्यादा ही नोट मिले हैं। जो वे जनता को कभी 100 तो कभी 500 के नोट बांटते दिख जाते हैं। कांग्रेस ने कहा कि बंदा दिलदार लगता है कुछ दिनों बाद 2000 के नोट की बारी है। गौरतलब है कि इससे पहले पिछले दिनों ही कांग्रेस ने मंत्री साहू का वीडियो वायरल किया था जिसमें वे 100 का नोट बांटते नजर आ रहे थे, उस फोटो को सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हुए कांग्रेस के ओमकार सिंह मरकाम ने चुनाव आयोग में शिकायत की थी ।

Dakhal News

Dakhal News 6 October 2020


bhopal,MP, CPI-M appeals ,voters , remove BJP, mandate , overturn power

भोपाल। मध्यप्रदेश में विधानसभा की 28 रिक्त सीटों पर होने वाले उपचुनावों को लेकर मार्क्सवादी कम्यूनिस्ट पार्टी (माकपा) ने भाजपा उम्मीदवारों के खिलाफ स्वतंत्र अभियान चलाने का निर्णय लिया है। साथ ही पार्टी ने उपचुनाव वाले क्षेत्रों के मतदाताओं से जनादेश को पलटने वाली भाजपा को सत्ता से हटाने की अपील की है।   पार्टी के राज्य सचिव जसविन्दर सिंह ने मंगलवार को मीडिया को जारी अपने बयान में कहा है कि प्रदेश में होने वाले 28 विधानसभा सीटों पर होने जा रहे उपचुनाव सामान्य परिस्थितियों की उपज नहीं है, बल्कि भाजपा ने उस जनादेश को पलटकर सत्ता को हथियाने का खेल खेला है। इसमें जनादेश का अपमान करने अब भाजपा की ओर से फिर चुनाव लडऩे वाले बिकाऊ लाल भी शामिल हैं।    उन्होंने कहा कि भाजपा ने प्रदेश में सत्ता हथियाने का खेल उस खतरनाक समय में खेला था, जब प्रदेश कोरोना की चपेट में आ रहा था और भाजपा प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री सहित 22 विधायकों की खरीद फरोख्त कर सरकार बनाने में जुटी थी। इसी के चलते प्रदेश कोरोना महामारी की चपेट में आया। सत्ता पाने के साथ ही भाजपा और सिंधिया की सौदेबाजी भी बेनकाब हो गई। शिवराज सिंह चौहान के मुख्यमंत्री बनने के अगले ही दिन सिंधिया परिवार के खिलाफ राजस्व न्यायालय में चल रहे मुकदमे  वापस ले लिए गए।    माकपा राज्य सचिव जसविंदर सिंह ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार के आते ही मंडियों में किसानों की लूट फिर से चालू हो गई है। बिजली कंपनियों की लूट से उपभोक्ता फिर से परेशान है। माकपा ने आरोप लगाया है कि सत्ता हथियाने के बाद भाजपा का मकसद कारपोरेट की लूट को बढ़ाकर मजदूरों-किसानों और आम जनता पर बोझ डालना और संघ के साम्प्रदायिक एजेंडे को आगे बढ़ाकर साम्प्रदायिक ध्रवीकरण तेज करना है। उन्होंने कहा कि माकपा ने निर्णय लिया है कि इन परिस्थितियों में जनतंत्र की रक्षा के लिए तथा जनादेश को पलटने वाली भाजपा को हराने के लिए स्वतंत्र अभियान चलायेगी। पार्टी ने उपचुनाव वाले विधानसभा क्षेत्रों के मतदाताओं से भाजपा और जनादेश का अपमान करने वाले प्रत्याशियों को हराने की अपील की है।

Dakhal News

Dakhal News 6 October 2020


bhopal,Mandal conferences,explain , Congress government ,committed atrocities, Bhupendra Singh

भोपाल। गत दो अक्टूबर से प्रदेश के 28 विधानसभा क्षेत्रों में पार्टी के मंडल सम्मेलन शुरू हो चुके हैं, जो 12 अक्टूबर तक चलेंगे। इन सम्मेलनों में केन्द्र एवं प्रदेश सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को वीडियो रथ के माध्यम से पहुंचायेंगे। सम्मेलन में यह बताया जाएगा कि पिछले सवा साल में कांग्रेस की सरकार ने पार्टी कार्यकर्ताओं और आम जनता पर कैसे-कैसे अत्याचार किए हैं। यह बात चुनाव प्रबन्ध समिति के प्रदेश संयोजक भूपेंद्र सिंह ने सोमवार को प्रदेश चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक के पश्चात मीडिया से बातचीत में ही। चुनाव प्रबन्ध समिति की बैठक सोमवार को प्रदेश कार्यालय में सम्पन्न हुई।   वरिष्ठ नेता करेंगे कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन   भूपेंद्र सिंह ने कहा कि मंडल सम्मेलनों में पार्टी के वरिष्ठ नेता कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार पार्टी के वरिष्ठ नेता व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया 7 से 12 अक्टूबर के बीच सुमावली, मुरैना, दिमनी, अंबाह, मेहगांव, गोहद, ग्वालियर, ग्वालियर पूर्व, डबरा, भांडेर, करेरा, पोहरी, मुंगावली और अशोकनगर विधानसभा के मंडलों में पहुंचकर बूथ सम्मेलनों में भाग लेंगे। पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व सांसद राकेश सिंह 7 से 9 अक्टूबर तक बड़ामलेहरा, सुरखी एवं अनूपपुर विधानसभा के विभिन्न मंडलों के बूथ सम्मेलन को संबोधित करेंगे। अजा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालसिंह आर्य के 16 विधानसभाओं में कार्यक्रम होना है।    उन्होंने बताया कि अब तक 13 मंडलों में मंडल सम्मेलन हो चुके हैं और 65 मंडलों के कार्यक्रम तय हो चुके हैं। इन सम्मेलनों में प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा, मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, थावरचन्द गेहलोत, राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय, सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया सहित अन्य नेता भाग लेंगे। चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक में पार्टी के प्रदेश मंत्री पंकज जोशी, डॉ. हितेश वाजपेयी, शैलेन्द्र शर्मा, मनोरंजन मिश्रा, विकास विरानी, नरेन्द्र पटेल, अभय प्रताप सिंह, राजेन्द्र गुरू, अनुराग प्यासी सहित समिति के सदस्य उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 5 October 2020


bhopal, Congress charges, now Shivraj government, committing new fraud

भोपाल। मप्र में उपचुनाव से पहले राजनीतिक दलों के बीच आरोप प्रत्यारोप का दौर तेज हो गया है। कांग्रेस सत्ता वापसी की उम्मीद में पूरा जोर लगा रही है। पूर्ववर्ती कमलनाथ सरकार के कामों की तुलना भाजपा सरकार से करने के साथ ही भ्रष्टाचार और फर्जीवाड़े के आरोप भी खूब लग रहे हैं। वहीं अब कांग्रेस ने प्रदेश सरकार पर लेपटॉप के नाम पर भी फर्जीवाड़ा करने का गंभीर आरोप लगया है।   प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेन्द्र सलूजा ने सोमवार को जारी एक बयान में आरोप लगाया कि अब लेपटॉप के नाम पर शिवराज सरकार बड़ा फर्जीवाडा करने जा रही है। इसकी खरीदी प्रक्रिया में जमकर अनियमितता है और इसको लेकर अजीबो-गरीब शर्त रखी गयी है। अब 10 साल पुराने प्रोसेसर का लैपटाप खरीदेंगे 19 हजार पटवारी ? लैपटाप की बाज़ार की अनुमानित क़ीमत 20 हजार है लेकिन सरकार इसके लिये करेगी 50 हजार का भुगतान ?   सलूजा ने बताया कि प्रदेश के सभी पटवारियों को सरकार ने लैपटाप देने की योजना बनाई है। जिसके तहत कुछ शर्तें भी तय की गई है। इसके लिए विभागीय आदेश जारी कर निर्देश दिया गया है कि 6 वें जनरेशन के प्रोसेसर वाला लैपटॉप खरीदा जाएगा। आश्चर्य की बात यह है कि इसकी अनुमानित कीमत सिर्फ 20 हजार है और सरकार इसके लिये 50 हजार का भुगतान करेगी।   उन्होंने कहा कि वर्ष 2012-2013 में 6 जनरेशन के लैपटाप बनते थे। अब यह लैपटाप कंपनियों ने बनाना बंद कर दिया है। जानकारी के अनुसार 29 सितंबर को राजस्व विभाग ने आदेश जारी कर लैपटाप खरीदी की शर्तें तय की है। जिसमें कहा गया है कि 6 जनरेशन के प्रोसेसर वाला ही लैपटाप खरीदा जाये, जो कि अब बंद हो गए हैं। मजे की बात है कि 8-10 साल पुराने लैपटाप की देखरेख भी महज 7 साल तय की गई है। यानि वर्षों पुराने प्रोसेसर के लैपटाप वर्ष 2020 में खरीदे जाएंगे और उनकी उम्र 7 सात तक वैध रहेगी। जबकि मौजूदा समय पर आई-9 और 10 प्रोसेसर के लैपटाप बाजार में बिक रहे हैं।   सलूजा ने कहा कि खास बात है कि जैम के जरिए लैपटाप खरीदा जाना था मगर सरकार ने पटवारियों को खुद ही खरीदने के लिए कहा है। जानकारों का कहना है कि ई-6  के लैपटाप बाजार में उपलब्ध नहीं है। ऐसे में पुराने ही लैपटाप की खरीदी होगी और भुगतान 50 हजार का ?सलूजा ने कहा कि जिस लैपटाप को खरीदने के लिए सरकार ने शर्त तय की है वो सरकारी कामकाज के लिए उचित नहीं होंगे क्योंकि हैवी साफ्टवेयर को झेलने की क्षमता उनमें नहीं होगी। जबकि जैम के माध्यम से खरीदी होने पर शासन विभिन्न वेंडरों से बेहतर शर्तों पर कम कीमत पर ई-10 प्रोसेसर के लैपटाप खरीद सकती है लेकिन घोटालों, भ्रष्टाचार व फर्जीवाड़ों के लिये शिवराज सरकार जानी जाती है, इसलिये यह सब किया जा रहा है ताकि इसमें भी जमकर फर्जीवाड़ा किया जा सके।

Dakhal News

Dakhal News 5 October 2020


bhopal, Kamal Nath ,apologizes public,making state ,capital of crimes, Rahul Kothari

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी लगातार यह कहती रही है कि कमलनाथ सरकार ने प्रदेश को अंधेरनगरी बना दिया था। 15 महीनों के कार्यकाल में कमलनाथ सरकार ने प्रदेश की कानून-व्यवस्था चौपट कर दी थी और प्रदेश को अराजकता की स्थिति में धकेल दिया था। अब यही बात नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के आंकड़ों से भी साबित हो गई है। शांति के टापू मध्यप्रदेश को अपराधों की कैपिटल बनाने के लिए कमलनाथ और राहुल गांधी को प्रदेश की जनता से माफी मांगनी चाहिए। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राहुल कोठारी ने वर्ष 2019-20 की एनसीआरबी रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कही।   कोठारी ने कहा कि एनसीआरबी के आंकड़ों से यह स्पष्ट हो जाता है कि कमलनाथ सरकार ने किस तरह प्रदेश को अपराध बना दिया था। बात मासूमों पर अत्याचार की हो या असहाय बुजुर्गों पर जुल्म की, कमलनाथ सरकार ने प्रदेश को हर तरह के अपराधों में शीर्ष पर पहुंचा दिया था। कोठारी ने कहा कि कमलनाथ सरकार के समय देश में दर्ज हुए पाक्सो एक्ट के 1116 मामलों में से 214 मामले मध्यप्रदेश में दर्ज हुए, जो सबसे ज्यादा है। इसी तरह एससी/एसटी/एट्रोसिटी एक्ट के देश भर में दर्ज किए गए 195 मामलों में से 38 मामले मध्यप्रदेश में दर्ज किए गए। पूरे प्रदेश की पुलिस और प्रशासन तंत्र को तबादलों की आग में झोंक देने वाली कमलनाथ सरकार को असहाय बुजुर्गों पर भी दया नहीं आई। इस सरकार के समय देश भर में दर्ज हुए वृद्धजनों पर हमले के 6000 मामलों में से 2000 मामले मध्यप्रदेश में दर्ज हुए हैं। कोठारी ने कहा कि ये आंकड़े बताते हैं कि 2019-20 में कमलनाथ सरकार के दौरान कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने प्रदेश को माफिया प्रदेश बनाकर रख दिया था और इसके लिए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और कांग्रेस नेता राहुल गांधी को प्रदेश की जनता से माफी मांगनी चाहिए।   प्रदेश प्रवक्ता कोठारी ने कहा कि तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रदेश की जनता से झूठ बोलकर, धोखा देकर कांग्रेस की जो सरकार बनाई थी, उस सरकार ने 10 दिनों में कर्जा माफ नहीं किया। बिजली का बिल हॉफ नहीं किया। हां, उस सरकार ने पूरे देश में प्रदेश की प्रतिष्ठा को साफ करने का काम जरूर किया है।  कोठारी ने कहा कि अपनी सरकार की इस नाकामी के लिए राहुल गांधी को प्रदेश की जनता से माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी इन आंकड़ों को लेकर प्रदेश में होने जा रहे उपचुनाव में जाएगी और जनता को कमलनाथ सरकार का सच बताएगी।

Dakhal News

Dakhal News 3 October 2020


bhopal, Survival animals , important ,environmental balance, Shivraj

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विश्‍व पशु दिवस के अवसर पर कहा है कि यह पृथ्वी सभी के लिए है। केवल मनुष्य ही नहीं पशु-पक्षी, पेड़-पौधों से पृथ्वी की समग्रता पूर्ण होती है। पर्यावरण संतुलन के लिए भी पशुओं का अस्तित्व महत्वपूर्ण है।    मुख्यमंत्री चौहान ने कहा है कि राज्य शासन पशुओं के कल्याण और संरक्षण की दिशा में निरंतर सक्रिय है। पशुपालन विभाग द्वारा संचालित पशु चिकित्सालयों में सुविधाओं का विस्तार और वन विभाग द्वारा कठिन परिस्थितियों में पशुओं की देखभाल तथा उनके उपचार के लिए किए जा रहे प्रयास इसके प्रतीक हैं। स्वयंसेवी संस्थाएं भी पशुओं की देखभाल में सक्रिय हैं।    उन्‍होंने कहा कि पशुओं के प्रति संवदेनशीलता, सहानुभूति और सहृदयता आवश्यक है। राज्य शासन द्वारा इस दिशा में जागरूकता के लिए भी प्रयास किए जा रहे हैं। उल्लेखनीय है कि 4 अक्टूबर को विश्‍व पशु दिवस मनाया जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 3 October 2020


bhopal,BJP

भोपाल। उपचुनाव वाली प्रदेश की 28 विधानसभाओं के 128 मंडलों में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती 02 अक्टूबर से भारतीय जनता पार्टी के बूथ सम्मेलनों की शुरुआत हुई। मंडल सम्मेलनों में पार्टी कार्यकर्ता चुनावी तैयारियों में दोगुनी ऊर्जा के साथ जुटने का संकल्प ले रहे हैं। आगामी विधानसभा उपचुनाव को लेकर गठित पार्टी की चुनाव प्रबन्ध समिति के संयोजक भूपेंद्र सिंह ने बताया कि उपचुनाव वाली 28 विधानसभाओं के बूथ सम्मेलनों में मुख्यमंत्री, प्रदेश अध्यक्ष, केंद्रीय मंत्रीगण राष्ट्रीय पदाधिकारी भी शामिल होंगे।समिति के संयोजक भूपेंद्र सिंह ने बताया कि 3 अक्टूबर को पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव  कैलाश विजयवर्गीय सांवेर विधानसभा के प्रकाश सोनकर एवं माता अहिल्याबाई मंडल के सम्मेलनों को संबोधित करेंगे। 4 अक्टूबर को केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर दिमनी विधानसभा के थरा, सिहोनिया, अंबाह विधानसभा के पोरसा ग्रामीण, नगरा, अंबाह नगर एवं ग्रामीण मंडल के बूथ एवं 5 अक्टूबर को जौरा विधानसभा के पहाड़गंज एवं कैलारस मंडल,  मुरैना विधानसभा के मुरैना पूर्व और पश्चिम मंडल के बूथ सम्मेलनों को संबोधित करेंगे। पार्टी के वरिष्ठ नेता व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया 7 से 12 अक्टूबर के बीच सुमावली, मुरैना, दिमनी, अंबाह, मेहगांव, गोहद, ग्वालियर, ग्वालियर पूर्व, डबरा, भांडेर, करेरा, पोहरी, मुंगावली और अशोकनगर विधानसभा के मंडलों में पहुंचकर बूथ सम्मेलनों में भाग लेंगे। पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व सांसद राकेश सिंह 7 से 9 अक्टूबर तक बड़ामलेहरा, सुरखी एवं अनूपपुर विधानसभा के विभिन्न मंडलों के बूथ सम्मेलन को संबोधित करेंगे। इसी प्रकार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा, संगठन महामंत्री सुहास भगत, केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत,  प्रहलाद सिंह पटेल, फग्गनसिंह कुलस्ते, पार्टी के राष्ट्रीय मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे,, प्रदेश शासन के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा, नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह एवं अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालसिंह आर्य उपचुनाव वाली विधानसभाओं के विभिन्न मंडलों में प्रवास करते हुए बूथ सम्मेलनों में भाग लेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 2 October 2020


bhopal,BJP

भोपाल। उपचुनाव वाली प्रदेश की 28 विधानसभाओं के 128 मंडलों में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती 02 अक्टूबर से भारतीय जनता पार्टी के बूथ सम्मेलनों की शुरुआत हुई। मंडल सम्मेलनों में पार्टी कार्यकर्ता चुनावी तैयारियों में दोगुनी ऊर्जा के साथ जुटने का संकल्प ले रहे हैं। आगामी विधानसभा उपचुनाव को लेकर गठित पार्टी की चुनाव प्रबन्ध समिति के संयोजक भूपेंद्र सिंह ने बताया कि उपचुनाव वाली 28 विधानसभाओं के बूथ सम्मेलनों में मुख्यमंत्री, प्रदेश अध्यक्ष, केंद्रीय मंत्रीगण राष्ट्रीय पदाधिकारी भी शामिल होंगे।समिति के संयोजक भूपेंद्र सिंह ने बताया कि 3 अक्टूबर को पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव  कैलाश विजयवर्गीय सांवेर विधानसभा के प्रकाश सोनकर एवं माता अहिल्याबाई मंडल के सम्मेलनों को संबोधित करेंगे। 4 अक्टूबर को केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर दिमनी विधानसभा के थरा, सिहोनिया, अंबाह विधानसभा के पोरसा ग्रामीण, नगरा, अंबाह नगर एवं ग्रामीण मंडल के बूथ एवं 5 अक्टूबर को जौरा विधानसभा के पहाड़गंज एवं कैलारस मंडल,  मुरैना विधानसभा के मुरैना पूर्व और पश्चिम मंडल के बूथ सम्मेलनों को संबोधित करेंगे। पार्टी के वरिष्ठ नेता व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया 7 से 12 अक्टूबर के बीच सुमावली, मुरैना, दिमनी, अंबाह, मेहगांव, गोहद, ग्वालियर, ग्वालियर पूर्व, डबरा, भांडेर, करेरा, पोहरी, मुंगावली और अशोकनगर विधानसभा के मंडलों में पहुंचकर बूथ सम्मेलनों में भाग लेंगे। पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व सांसद राकेश सिंह 7 से 9 अक्टूबर तक बड़ामलेहरा, सुरखी एवं अनूपपुर विधानसभा के विभिन्न मंडलों के बूथ सम्मेलन को संबोधित करेंगे। इसी प्रकार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा, संगठन महामंत्री सुहास भगत, केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत,  प्रहलाद सिंह पटेल, फग्गनसिंह कुलस्ते, पार्टी के राष्ट्रीय मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे,, प्रदेश शासन के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा, नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह एवं अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालसिंह आर्य उपचुनाव वाली विधानसभाओं के विभिन्न मंडलों में प्रवास करते हुए बूथ सम्मेलनों में भाग लेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 2 October 2020


Indore, Congress workers ,assaulted BJP worker ,garlanded Bapu , Modi

इंदौर। अहिंसा के पुजारी बापू के जन्मदिवस पर शुक्रवार को इंदौर में गांधी प्रतिमा के सामने ही हिंसा देखने को मिली। पीएम नरेंद्र मोदी की वेशभूषा में बापू को श्रद्धांजलि देने आए एक भाजपा कार्यकर्ता को देख कांग्रेसियों ने अपना आपा खो दिया। माल्यार्पण बाद जैसे ही वह नीचे उतरा कांग्रेसी उस पर टूट पड़े और जमकर झूमा-झटकी की। किसी तरह पुलिस और भाजपा कार्यकर्ताओं ने उसे बाहर निकाला।    राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती पर इंदौर के रीगल चौराहे स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण का कार्यक्रम आयोजित किया गया था। उसी समय एक भाजपा कार्यकर्ता मोदी का मुखौटा लगाए महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने पहुंचा। माल्यार्पण करने के बाद जैसे ही वह नीचे उतरा कांग्रेसियों ने उसे घेर लिया और नारेबाजी शुरू कर दी। नारेबाजी के बीच कुछ कांग्रेसियों ने मोदी मुखौटा पहने भाजपा नेता पर हमला भी किया। पुलिस और भाजपा के कुछ लोगों ने बीच-बचाव करते हुए भाजपा नेता को जैसे-तैसे वहां से निकाला और रवाना किया।   भाजपा नेताओं ने की निंदा हमले के शिकार हुए भाजपा नेता लक्ष्मीनारायण शर्मा का कहना है कि वे मोदी के वेश में कार्यक्रम में शामिल होने आए थे। गांधी जी क्या केवल कांग्रेस के हैं,  सबको उन्हें माला पहनाने का अधिकार है। मैं माला पहनाने आया तो कांग्रेसी बौखला गए और मारपीट पर उतारू हो गए। यह नैतिकता के खिलाफ है। कांग्रेसियों ने मेरे साथ गाली गलौज और  मार-पीट की है। इन्होंने गांधी स्थल पर ही मारपीट की। इन पर मुकदमा दर्ज होना चाहिए। कुर्सी जाने के बाद ये पागल हो गए हैं।    वहीं, भाजपा नेता उमेश शर्मा ने कहा कि कांग्रेसियों ने गांधी प्रतिमा के समक्ष जिस प्रकार का आचरण किया, वह निंदनीय है। जीवनभर महात्मा गांधी अहिंसा के मार्ग पर चलते रहे। गांधी प्रतिमा पर सामान्य नागरिक गांधी जी की प्रतिमा पर मोदी का मुखौटा पहनकर माल्यार्पण करने पहुंचा तो उसके साथ कांग्रेसियों ने मारपीट की। कांग्रेसियों ने जिस प्रकार हिंसक आचरण किया वह शर्मनाक है। यह कारनामा इंदौर को लज्जित करने वाला है। उस व्यक्ति का अपराध बस इतना है कि वह मोदी का मुखौटा लगाकर आ गया।

Dakhal News

Dakhal News 2 October 2020


bhopal, BJP leaders, including Shivraj ,salute , birth anniversary

भोपाल। आज 2 अक्टूबर का दिन भारत के लिए दो बड़ी शख्सियतों के जन्मदिन का दिन है। इस दिन राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के साथ ही देश के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती भी है। आज ही के दिन साल 1904 में उनका जन्म उत्तर प्रदेश के मुगलसराय में हुआ था। देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के निधन के बाद लाल बहादुर शास्त्री देश के दूसरे पीएम बने और उन्होंने देश को जय जवान जय किसान का नारा दिया। लाल बहादुर शास्त्री के प्रभावशाली व्यक्तित्व का अंदाजा इस बात से लगा सकते हैं कि विदेशों में भी उनके विचारों और निडरता की तारीफ की जाती थी। उनकी जयंती पर आज पूरा देश उन्हें याद कर रहा है।   मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लाल बहादुर शास्त्री को जयंती पर नमन करते हुए कहा कि ‘परस्पर लडऩे की बजाय हमें गरीबी, बीमारी और अज्ञानता से लडऩा चाहिए- शास्त्री जी   'जय जवान जय किसान' का नारा देकर देश को नये जोश, नव विश्वास और नई शक्ति से भर देने वाले भारत के पूर्व प्रधानमंत्री स्व. लालबहादुर शास्त्री जी की जयंती पर कोटि-कोटि नमन!   भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने अपने ट्वीट में कहा कि ‘अपना सम्पूर्ण जीवन माँ भारती की सेवा में समर्पित करने वाले पूर्व प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती पर उन्हें भावपूर्ण नमन।   भाजपा राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने लाल बहादुर शास्त्री को जयंती पर स्मरण कर अपने ट्वीट में लिखा ‘स्वतंत्रता सेनानी एवं पूर्व प्रधानमंत्री 'भारत रत्न' श्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती पर सादर नमन।   प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने अपने संदेश में कहा ‘भारतीय राजनीति में सादगी, शुचिता और  उच्चतम आदर्शों के प्रतीक देश के दूसरे प्रधानमंत्री भारतरत्न लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती पर नमन और शुभकामनाएं।

Dakhal News

Dakhal News 2 October 2020


bhopal, Ajay Singh, lashed out , CM Shivraj , become a school , teach fraud

भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष और वरिष्ठ कांग्रेस नेता अजय सिंह ने सीएम शिवराज सिंह चौहान पर तंज कसा है। उन्होंने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि मध्यप्रदेश में पिछले 15 सालों से सत्ता में रहते हुए अब शिवराज सिंह चौहान अपनी पार्टी को भ्रष्ट आचरण करने, संविधान के खिलाफ काम करने और छल-कपट करने को जायज ठहराने की शिक्षा भी देने लगे हैं। पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने गुरुवार को जारी अपने बयान में कहा कि अनैतिक तरीकों से सत्ता में आकर, विधायकों की खरीद फरोख्त करके और देश के इतिहास का सबसे बड़ा प्रजातंन्त्र हत्याकांड करके शिवराज बेशर्मी से अपने पार्टी पदाधिकारियों और आम जनता को कह रहे हैं कि भाजपा सरकार बनी रहे इसके लिये एक जुट रहें। सीएम शिवराज पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि शिवराज सिंह चौहान ने तो नैतिकता का दामन उसी समय छोड़ दिया था जब जनादेश वाली कमलनाथ सरकार को गिराने के लिये न सिर्फ विधायकों की खरीद फरोख्त की बल्कि पूरे देश को कोरोना वायरस के हवाले कर दिया। पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि शिवराज अब लोगों को और अपनी पार्टी को झूठ, फरेब, धोखेबाजी, अनीति, भ्रष्टाचार की सीख देने वाले  नेता बन गए हैं। अब देखना है कि खुले आम अनैतिकता और भ्रष्ट आचरण का साथ देने के लिये वे किस मुंह से उसी जनता के पास जाते हैं, जिसने शिवराज सरकार के भ्रष्टाचार से तंग आकर उन्हें नकार दिया था। उन्होने कहा कि शिवराज सिंह चौहान अनैतिक होने और छल कपट सिखाने का जीता जागता स्कूल बन चुके हैं। अब वे चाहते हैं कि उनके स्कूल में ज्यादा से ज्यादा लोग पढऩे आयें। उन्होने कहा कि आम जनता हमेशा सच का साथ देती है। शिवराज का झूठ न सिर्फ मध्यप्रदेश बल्कि पूरे देश में कुख्याति प्राप्त कर चुका है। उनके नेतृत्व में डंपर कांड से शुरू होकर व्यापम कांड और न जाने कितने कांड होते हुए जब वे सत्ता से बाहर हो गये तो "प्रजातंत्र हत्याकांड" कर दिया। जनता उन्हें कभी माफ नहीं करेगी।

Dakhal News

Dakhal News 1 October 2020


bhopal,CM Shivraj, greets President Ramnath Kovind, his birthday

भोपाल। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का आज गुरुवार को जन्मदिन है। वे आज अपना 75वां जन्मदिन मना रहे हैं। राष्ट्रपति कोविंद का जन्म 1 अक्टूबर 1945 को यूपी के कानपुर जिले एक गांव में हुआ था। वह 25 जुलाई 2017 को देश के 14वें राष्ट्रपति बने थे। उनके जन्मदिन पर देशभर से उन्हें बधाई संदेश मिल रहे हैं। मप्र के सीएम शिवराज सिंह चौहान समेत भाजपा नेताओं ने उनके दीर्घायु होने की कामना करते हुए उन्हें बधाई दी है।   सीएम शिवराज ने ट्वीट कर राष्ट्रपति कोविंद को जन्मदिन की शुभकामनाएं देते हुए कहा ‘भारत के राष्ट्रपति मा. श्री रामनाथ कोविंद जी को जन्मदिन की आत्मीय बधाई! देश व समाज के उत्थान के लिए सतत कार्य करने की आपकी विनम्र शैली हम सभी को राष्ट्र व जनसेवा के लिए प्रेरित करती है। आप सदैव स्वस्थ रहें और हम सब पर आपका आशीष ऐसे ही बना रहे, यही कामना!    भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने अपने शुभकामना संदेश में कहा ‘भारत के माननीय राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद जी को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं। ईश्वर से आपके उत्तम स्वास्थ्य व दीर्घायु की कामना करता हूँ।   भाजपा राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने राष्ट्रपति को कोविंद को जन्मदिन की बधाई देते हुए उनके दीर्घायु होने की कामना की है। उन्होंने अपने शुभकामना संदेश में कहा ‘जीवेत शरद: शतम् !!! देश के 14वें राष्ट्रपति, गुदड़ी के लाल, बहुमुखी प्रतिभा के धनी महामहिम रामनाथ कोविंद जी को जन्मदिवस पर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएँ... बाबा महाकाल की कृपा आप पर सदा बनी रहे।   प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने अपने बधाई संदेश में कहा ‘सादगी और सरलता की प्रतिमूर्ति माननीय राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद जी को जन्मदिन की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं। समाज के शोषित और वंचित वर्ग के कल्याण व सशक्तिकरण के प्रति आपका समर्पण हम सभी को प्रेरित करता है। ईश्वर से आपके उत्तम स्वास्थ्य व दीर्घायु की कामना करता हूँ।

Dakhal News

Dakhal News 1 October 2020


bhopal, Scindia calls ,CBI special court

भोपाल। अयोध्या में छह दिसम्बर 1992 को ढहाए गए विवादित ढांचे के मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने बुधवार को अपना फैसला सुनाते हुए सभी 32 आरोपितों को बरी कर दिया। भाजपा के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सीबीआई की विशेष अदालत के फैसले को ऐतिहासिक बताया है।    दरअसल, ज्योतिरादित्य सिंधिया बुधवार को भोपाल एयरपोर्ट पहुंचे, जहां समर्थकों द्वारा उनका जोरदार स्वागत किया। इस अवसर पर उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा कि विवादित ढांचे को लेकर आए फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि न्यायालय ने ऐतिहासिक निर्णय दिया है। इतिहास को मद्देनजर रखते हुए यह निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि सत्य की जरूर जीत हुई है जैसा मैं सदैव कहता हूं सत्य परेशान हो सकता है, लेकिन पराजित नहीं हो सकता।

Dakhal News

Dakhal News 30 September 2020


ujjain,New education policy, important taking youth ,Dr. Mohan Yadav

उज्जैन। प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव ने बुधवार को उज्जैन में विक्रम विश्वविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में कहा कि नवीन शिक्षा नीति युवाओं को वैश्विक धरातल पर ऊंचाई तक ले जाने में महत्वपूर्ण है। उज्जयिनी प्राचीनकाल से शिक्षा का केन्द्र रही है। विक्रम विश्वविद्यालय को अपने संसाधनों के माध्यम से निरन्तर विकास करना चाहिये। शासन स्तर पर विकास में सहयोग मिलता रहेगा। उज्जैन न्यायप्रिय शासक विक्रमादित्य से जुड़ा है। यहां संसाधन भी बहुत हैं, उनका उपयोग होना चाहिये।    उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव ने कहा कि हमें प्राचीन नालन्दा, तक्षशिला विश्वविद्यालय को दृष्टिगत रख विकास पर कार्य करना चाहिये। उज्जैन में धार्मिक पर्यटन के साथ विज्ञान परियोजना को लेकर विज्ञान पर्यटन भी विकसित होना चाहिये। कार्यक्रम में विक्रम विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. अखिलेश कुमार पाण्डेय ने उच्च शिक्षा मंत्री को आश्वस्त किया कि विश्वविद्यालय के विकास में समस्त प्राध्यापक, अधिकारी, कर्मचारी निरन्तर प्रयास करेंगे। उन्होंने समस्त प्राध्यापकों को नवीन शिक्षा नीति-2020 लागू करने वाला प्रथम विश्वविद्यालय बनें, ऐसी परियोजना शोधकार्य सम्बन्धी पहल करें।   विश्वविद्यालय के नवागत कुलसचिव डॉ. यूएन शुक्ल ने कहा कि विश्वविद्यालय के समस्त प्राध्यापक, सेवक एवं विद्यार्थियों की समस्याओं का शीघ्र निवारण करने का प्रयास किया जायेगा। उन्होंने आश्वासन दिया कि उच्च शिक्षा मंत्री के मार्गदर्शन में विश्वविद्यालय निरन्तर विकास करेगा। कार्यक्रम में विक्रम विश्वविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त छात्रा मेहरान जाफरी को नगद पांच हजार रुपये की सम्मान राशि उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव के द्वारा प्रदान की गई। उच्च शिक्षा मंत्री डॉ.मोहन यादव ने बैठक के बाद परिसर में पीपल, बरगद एवं नीम के पौधों का रोपण किया।

Dakhal News

Dakhal News 30 September 2020


ashoknagar, Former MLA ,used revolve around, Kamal Nath, doing unethical work,Congress

अशोकनगर। अशोकनगर के पूर्व विधायक एवं संभावित भाजपा प्रत्याशी का जनता के बीच दोहरा चरित्र सर्व विदित है, एक तरफ कांग्रेस की साफ-सुथरी छवि की प्रत्याशी हैं तो दूसरी तरफ घोटाले, भ्रष्टाचार अनैतिक कार्य एवं विवादित दोहरे चरित्र के प्रत्याशी हैं। अशोकनगर के पूर्व विधायक कमलनाथ सरकार में फाइलें ले-लेकर चक्कर लगाया करते थे, उनके अनैतिक काम न होने पर आज वे कमलनाथ सरकार पर दोषा रोपण कर रहे हैं, इसका जवाब जनता उन्हें उप चुनाव में देने जा रही है।    यह बात कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता एवं अशोकनगर उप चुनाव के मीडिया समन्वयक शहरयार खान ने मंगलवार को एक पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कही।  कांग्रेस प्रवक्ता ने ज्योतिरादित्य सिंधिया का बिना नाम लिए उन भी आरोप लगाते हुए कहा कि उनके द्वारा लंबे समय से क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने के साथ गुना एवं अशोकनगर के दलितों को उपेक्षित रहने पर मजबूर किया।   अशोकनगर विधानसभा क्षेत्र में शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार के लिए कभी कोई साधन उपलब्ध नहीं कराये, बल्कि जो साधन यहां उपलब्ध होना थे उसमें अडंग़ा लगाया जाता रहा। जिस कारण से अशोकनगर विधानसभा क्षेत्र के लोग शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार के क्षेत्र में अभाव का जीवन यापन करने मजबूर हो रहे हैं।   आरोप लगाते हुए कहा कि अपने को जन सेवक कहने वाले सिंधिया के संरक्षण में अशोकनगर विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक एवं संभावित भाजपा प्रत्याशी (जिनकी जाति विवादित रही है) जिनको नगर पालिका अध्यक्ष बनाया। उनके द्वारा अपने नगरपालिका अध्यक्ष के कार्यकाल में लाखों के घोटाले किए और नगरपालिका की सम्पत्ति की अपने चहेतों को बंदरबाट कराई गई। एवं स्वयं इन जनसेवक जी द्वारा दलितों की उपेक्षा के कई प्रमाण मिलते हैं जिसका उदाहरण है कि पूर्व विधायक जो कि कई जातियों से चुनाव लड़ कर दलितों का हक छीनने का काम कर रहे हैं इसमें उन्हें पूर्ण रूप से शिव ज्योति एक्सप्रेस के मालिक का समर्थन मिलता रहा है एवं मिल रहा है। क्षेत्र में अशोक नगर के विकास को भी उपेक्षित करने के बहुत सारे प्रमाण हैं।   कांग्रेस बनायेगी असली स्मार्ट सिटी: दोहरे  वहीं इस मौके पर कांग्रेस प्रत्याशी आशा दोहरे ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह द्वारा अशोकनगर को स्मार्ट सिटी बनाये जाने को जुमला बताया, कहा कि मुख्यमंत्री का यह जुमला से अधिक कुछ नहीं है, अब कमलनाथ की सरकार आने पर हम अशोकनगर को बनवायेंगे असली स्मार्ट सिटी। साथ ही कांग्रेस प्रत्याशी ने कहा कि अशोक नगर के सर्वांगीण विकास दो महिलाओं एवं युवाओं के लिए खाद्य प्रसंस्करण ट्रेनिंग सेंटर (एफपीटीसी) की स्थापना,शाडोरा में महाविद्यालय की स्थापना, कृषि महाविद्यालय की जिला मुख्यालय पर स्थापना, पॉलिटेक्निक कॉलेज को इंजीनियरिंग कॉलेज में बदलना, अशोकनगर के समस्त ब्लॉक स्तर पर खाद्य बीज वितरण केंद्र की स्थापना, अस्पताल में वेंटिलेटर एवं ट्रामा सेंटर को सुचारू रूप से चालू करवानाअशोक नगर में कन्या महाविद्यालय की स्थापना कराई जावेगी।

Dakhal News

Dakhal News 29 September 2020


bhopal, Minister Mohan Yadav, fretting over, demand regularize, guest scholars

भोपाल। मध्य प्रदेश में अतिथि विद्वानों की नियमितीकरण का मामला एक बार फिर गर्मा गया है। कांग्रेस ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि प्रदेश में अलोकतांत्रिक तरीके से पीछे के रास्ते से सत्ता में आई भाजपा की शिव-ज्योति पैसेन्जर सरकार की कलई एक बार फिर खुल गई है। अतिथि विद्वानों को नियमित किए जाने के मामले में प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव ने एक लिखित उत्तर में यह माना है कि तत्कालीन कमलनाथ सरकार अतिथि विद्वानों को नियमित करने जा रही थी।   कांग्रेस नेता भूपेन्द्र गुप्ता ने मंगलवार को एक बयान जारी कर कहा कि प्रदेश के किसानों की कर्जमाफी और अतिथि विद्वानों के नियमितिकरण को लेकर भाजपा नेताओं और सरकार द्वारा फैलाए जा रहे भ्रम को उन्ही के द्वारा विधानसभा के पटल पर यह स्वीकार करना पड़ रहा है कि कमलनाथ सरकार किसान कर्जमाफी के साथ ही अतिथि विद्वानों को नियमित करने भी जा रही थी। लेकिन माफिया के सहयोग से सरकार गिरा दी गई। उन्होंने बताया कि विधानसभा में पूर्व मंत्री जीतू पटवारी द्वारा किए गए एक सवाल के जवाब में उत्तर देते हुए शिवराज सरकार ने यह माना है कि पूर्व उच्च शिक्षा मंत्री मंत्री जीतू पटवारी ने अतिथि विद्वानों को नियमित करने की प्रक्रिया शुरू कर दी थी। जिसको लेकर उन्होंने एक नोटशीट पर अतिथि विद्वानों के नियमितिकरण के लिए कैबिनेट में प्रस्ताव दिया था। जिस पर जल्द ही फैसला होने वाला था। लेकिन उससे पहले ही साजिश के तहत माफिया और गद्दारों के गठजोड़ ने अलोकतांत्रिक तरीके से कमलनाथ सरकार गिरा दी यह किसी से छुपा नहीं है।   भूपेन्द्र गुप्ता ने तंज कसते हुए कहा कि अपने नियमितिकरण की माँग को लेकर जब अतिथि विद्वान उच्च शिक्षा मंत्री के पास अपनी गुहार लेकर जाते है तो वह झल्ला कर आत्महत्या कर लेने के ताने देते रहे है। मुश्किलों से जीवन यापन करने वाले अतिथि विद्वानों की व्यथा सुनने की वजाय उच्च शिक्षा मंत्री अपना आपा खो कर एक आम आदमी की तरह व्यवहार कर रहे है जबकि वह एक संवैधानिक पद पर बैठे ऐसे विभाग के मंत्री है जिसके कर्मचारी अपनी नियमितिकरण की माँग करते हुए उनसे निवेदन कर रहे है। उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव का यह वक्तव्य कि क्या वह आत्महत्या कर ले यह संवैधानिक पद पर बैठे एक जन प्रतिनिधि को शोभा नहीं देता। जबकि महिला अतिथि विद्वानों को उनके सहायक अपमानित कर रहे है यह भी घोर निंदा का विषय है। आप किसी के घावों पर मरहम नहीं लगा सकते तो उस पर नमक मिर्ची तो मत लगाओ।   कांग्रेस कमेटी के मीडिया उपाध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को कमलनाथ सरकार से भय था कि पिछले 15 सालों के भाजपा शासन काल में किए गए भ्रष्ट्राचार, घोटालों का पर्दा धीरे-धीरे उठ रहा था। वही ज्योतिरादित्य सिंधिया भी कमलनाथ सरकार पर और दबाव नहीं बना पा रहे थे। इस दौरान सिंधिया पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को इसी का डर था कि कही पार्टी में रहते हुए उनके ही काले कारनामों को सरकार उजागर न कर दे। जिसके चलते शिवराज सिंह चौहान और ज्योतिरादित्य सिधिया ने साजिशन एक जन लोकप्रिय सरकार को जो कमलनाथ जी के नेतृत्व में चल रही थी इसे किसान कर्जमाफी और अतिथि विद्वानों के नियमितिकरण का झूठा मुद्दा बनाकर गिरा दिया।    भूपेन्द्र गुप्ता ने बताया कि कांग्रेस की कमलनाथ सरकार के उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने अतिथि विद्वानों को नियमित करने के लिए नए पद सृजित किए थे। जो अतिथि विद्वान फॉल इन ऑउट हुए थे उनके लिए यह पद सृजित किए गए थे और 950 पदों पर तत्काल चॉइस फिलिंग करवाकर उनको आवंटन पत्र जारी करने के निर्देश दे दिए थे। 9 मार्च 2020 को यह प्रक्रिया पूरी हो गई थी। जबकि कमलनाथ सरकार ने अतिथि विद्वानों के लिए 450 अतिरिक्त पद स्वीकृत किए थे। लेकिन अलोकतांत्रिक तरीके से सत्ता में आई भाजपा की शिवराज सरकार अतिथि विद्वानों को नियमितिकरण करने की वजाय उनके घावों पर नमक छिडक़ने का काम कर रही है।

Dakhal News

Dakhal News 29 September 2020


bhopal,Chief Minister ,Shivraj Singh Chauhan, interacted,Corona warriors

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को राजधानी भोपाल के मिंटो हाल में आयोजित कार्यक्रम में चिकित्सा क्षेत्र के कोरोना योद्धाओं को सम्मानित किया। इस अवसर पर उन्होंने कोविड-19 महामारी काल में योगदान देने वाले चिकित्सा क्षेत्र के कोरोना योद्धाओं से वीडियों कान्फ्रेंसिंग द्वारा संवाद भी किया।    भय दूर करना बड़ी चुनौती   मुख्यमंत्री ने सागर मेडिकल कॉलेज के सहायक प्राध्यापक मेडिसिन डॉ. मनीष जैन से बातचीत करते हुए पूछा, मनीष जी- कैसे हैं आप। कोरोना के शुरुआती दौर में आपके सामने सबसे बड़ी चुनौती कौन-सी थी। यह बातचीत बीच की है। डॉ. जैन ने मुख्यमंत्री को बताया कि टीम को मोटिवेट करना और भय दूर करना सबसे बड़ी चुनौती थी। इसके लिए हमारे सीनियर्स और मैंने स्वयं पहल और हिम्मत कर मरीजों के वार्ड में जाना शुरु किया। इससे टीम वर्क में काम शुरु हुआ। डॉ. जैन ने बताया कि मरीजों का मनोबल बनाए रखना भी बड़ी चुनौती थी। सामान्यत: दूसरी बीमारियों में परिजन मरीज के साथ बने रहते हैं, उसका मनोबल बढ़ाते हैं। इस बीमारी में मरीज अकेला था। अत: वीडियो कॉलिंग व्यवस्था आरंभ कर इस दिशा में प्रयास किया।   छह महीने से आइसोलेशन में हूँ   मुख्यमंत्री ने भिण्ड के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अजीत मिश्रा से पूछा कि घर वाले कोरोना से डरकर यह तो नहीं कहते कि छोड़ो-छाड़ो डॉक्टरी-कुछ और कर लेना। इस पर डॉ. मिश्रा ने बतया कि घर पर वृद्धजनों की बीमारी के प्रति संवेदनशीलता और उन्हें संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए मैंने स्वयं छ: माह से स्वयं को घर में आइसोलेट किया हुआ है। मुख्यमंत्री ने कहा कि ये समर्पण की अद्भुत मिसाल है। डॉ. मिश्रा ने बताया कि प्रवासी मजदूरों से संक्रमण फैलने की संभावना के समय आईआईटीटी रणनीति बहुत प्रभावशाली रही।   'जल्द ही जीतेंगे कोरोना से'   कुमारी अंशुल मिश्रा इन्दौर में एपीडिमियोलॉजिस्ट हैं। कोविड के आंकड़ों का विश्लेषण तथा राज्य व राष्ट्रीयस्तर पर रिपोर्टिंग की जिम्मेदारी उनकी है। मुख्यमंत्री ने कुमारी अंशुल से पूछा कि डाटा देखकर मन में क्या भाव आता है। अंशुल ने कहा कि अध्ययन के दौरान महामारियों के बारे में पड़ा अवश्य था, लेकिन  महामारी से डील करने का यह पहला अनुभव है। मुख्यमंत्री के यह पूछने पर कि अब क्या संकल्प है मन में। अंशुल ने कहा कि- 'जल्द ही जीतेंगे कोरोना से'।   हम बचेंगे तभी दूसरों को बचा पायेंगे   मरीज के सबसे अधिक निकट संपर्क में तो नर्सिंग स्टाफ ही आता है। ऐसे में कोरोना मरीजों के इलाज में डर नहीं लगा। मुख्यमंत्री ने यह बात इन्दौर की नर्स जयश्री कुलकर्णी से पूछी। जयश्री ने कहा कि पूरी सावधानी, हिम्मत और अपनी सकारात्मकता बनाये रखते हुए इलाज किया। हमें ही तो मरीजों का डर दूर करना था। जयश्री ने बताया कि योगा, प्रणायाम और पौष्टिक भोजन पर विशेष ध्यान रखा क्योंकि हम बचेंगे तभी दूसरों को बचा पायेंगे। इन्दौर की डाटा मैनेजर अपूर्वा तिवारी ने मुख्यमंत्री से कहा कि आपका कार्य महत्वपूर्ण है। इससे हमें आगे की रणनीति बनाने का आधार मिलता है।   एक दिन में किए 2900 टेस्ट   दीपक बाथम गजराराजा चिकित्सा महाविद्यालय में लैब अस्सिटेंट हैं। इन्होंने मुख्यमंत्र् को बताया कि पहले प्रतिदिन केवल 60-70 सेंपल टेस्ट कर पाते थे। अब दो हजार से बाइस सौ टेस्ट रोज हो रहे हैं। दीपक ने बताया कि उन्होंने अधिकतम एक दिन में 2900 टेस्ट किए हैं। मुख्यमंत्री ने दीपक से कहा कि आवश्यक सावधानियों का पालन जरूर करें।   लड़ाई लंबी है : मोर्चे पर डटे रहना जरूरी   गांधी मेडिकल कॉलेज भोपाल के डॉ. लोकेन्द्र दवे ने कोरोना योद्धाओं की ओर से उत्साहवर्धन के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का आभार माना। डॉ. दवे ने कहा कि शासन पर्याप्त संसाधन उपलब्ध करा रहा है उन्होंने मुख्यमंत्री को आश्वस्त किया कि सभी चिकित्सक और पैरामेडिकल स्टाफ समर्पित भाव से निरंतर कार्य करने के लिए प्रतिबद्ध और समर्पित है। डॉ. दवे ने कहा कि कोरोना के विरुद्ध लड़़ाई लम्बी जरूर है पर योजनाबद्ध तरीके से मोर्चे पर डटे रहने से जीत हासिल होगी। मानसिक रूप से मजबूत रहना और सभी सावधानियों जैसे मास्क, सोशल डिस्टेसिंग, सेनेटाईजेशन का सतत् व सतर्क उपयोग जरूरी है।   मुख्यमंत्री ने जबलपुर कलेक्टर कर्मवीर शर्मा तथा देवास जिला पंचायत सीईओ शीतला पटेल से भी बातचीत की। अपर मुख्य सचिव मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि प्रदेश का रिकवरी रेट 80 प्रतिशत हो गया है। कोरोना से पीडि़त होने के बाद स्वस्थ हुए व्यक्तियों की संख्या एक लाख से अधिक हो गई है। कार्यक्रम को चिकित्सा शिक्षा आयुक्त निशांत वरवड़े ने भी संबोधित किया। फेसबुक, यूट्यूब, वेबकास्ट तथा प्रमुख न्यूज चेनल्स पर कार्यक्रम का प्रसारण हुआ, जिससे लाखों की संख्या में लोग जुड़े।

Dakhal News

Dakhal News 28 September 2020


bhopal, Disputed statement, Cabinet Minister, Usha Thakur, told Congress ,anti-national

भोपाल। अपने विवादित बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाली शिवराज सरकार में कैबिनेट मंत्री उषा ठाकुर एक बार फिर चर्चा में है। कुछ दिनों पहले ही जय आदिवासी युवा संगठन (जयस) को देशद्रोही बताने वाली मंत्री उषा ठाकुर ने अब कांग्रेस को देशद्रोही बताया है। उन्होंने कहा कि ये वैचारिक युद्ध है, ये देशभक्त और देशद्रोहियों के बीच का निर्वाचन है।   प्रदेश की संस्कृति एवं पर्यावरण मंत्री और महू से विधायक उषा ठाकुर ने कांग्रेस के उम्मीदवारों की सूची आने के बाद सोमवार को विवादित बयान देते हुए कहा कि इस बार का उपचुनाव वैचारिक युद्ध की लड़ाई है, और इस बार की राजनीतिक जंग देशभक्त और देशद्रोहियों के बीच की जंग है। इसके अलावा मंत्री ऊषा ठाकुर ने भाजपा को छोडक़र कांग्रेस में शामिल हुई पूर्व विधायक पारुल साहू और कन्हैयालाल अग्रवाल को भी राष्ट्रद्रोही करार देते हुए कहा कि उन्हें विचार करना चाहिए था, भाजपा वैचारिक अनुष्ठान के लिए राजनीति करती है। मंत्री ठाकुर ने निशाना साधते हुए कहा कि जिन्हें राष्ट्रवादिता से प्रेम था वो भाजपा के साथ हैं, जो राष्ट्रवाद से विमुख हुए वो कांग्रेस के साथ हैं।   गौरतलब है कि एक सप्ताह पहले ही मंत्री ठाकुर ने जयस को देशद्रोही बताया था। जिसके बाद प्रदेश में जयस ने उषा ठाकुर के पुतले फूंके थे। इस पूरे मामले के 24 घंटे में ही उषा ठाकुर ने अपने बयान पर संगठन से माफी मांग ली थी।

Dakhal News

Dakhal News 28 September 2020


Satna, Former Leader of Opposition, demands high-level inquiry, into death , police custody

सतना /भोपाल। मप्र विधानसभा में पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने सतना जिले के सिंहपुर थाने में पुलिस कस्टडी में नारायणपुर निवासी राजपति कुशवाहा की गोली लगने से हुई मौत की उच्चस्तरीय जांच की मांग की है|   पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने जारी बयान में कहा है कि थाने के अंदर पुलिसकर्मी की सर्विस रिवॉल्वर से किसी व्यक्ति की मौत हो जाना बेहद गंभीर मामला है| इस मामले में जो भी दोषी हों उनके खिलाफ प्रकरण पंजीबद्ध कर कड़ीं से कड़ीं कार्यवाही होनी चाहिये। अजय सिंह ने सवाल उठाते हुए कहा कि एक ओर प्रदेश के मुख्यमंत्री सार्वजनिक मंचों पर प्रदेश में अपराध कम होने का दावा करते हुए अपनी पीठ थपथपाते हैं वहीं दूसरी ओर अपराधी तो दूर पुलिस के दामन पर ही दाग लग रहे हैं। अजय सिंह ने साफ कहा कि सिंहपुर घटना से पुलिस की भूमिका पर सवाल खड़े हो रहे हैं जिसकी उच्चस्तरीय जांच आवश्यक है। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही इस मामले में जो भी दोषी हों उन्हें बख्शा नहीं जाना चाहिए।

Dakhal News

Dakhal News 28 September 2020


bhopal, Corona recovery rate ,over 80 percent, MP, Chief Minister reviews

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं संक्रमण रोकने के लिये किये जा रहे कार्यों की राज्य-स्तरीय समीक्षा की। वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश के सभी जिला कलेक्टर्स से जिलेवार जानकारी ली जाकर कोरोना संक्रमण को रोकने के लिये गंभीरता से प्रयास करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोरोना रिकवरी रेट 80 प्रतिशत से अधिक हो गया है, लेकिन अभी भी सतत् प्रयास किये जाना जरूरी हैं। सभी कलेक्टर्स जिलों में कोरोना उपचार की व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करें।मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि जबलपुर, नरसिंहपुर, शहडोल, उमरिया, खरगौन एवं धार में विशेष एहतियात रखें। बैठक में इन जिलों में कोरोना की स्थिति की पृथक से समीक्षा हुई। उन्होंने जिलों में कोविड केयर सेंटर्स में रोगियों के दाखिल होने और स्वस्थ होकर डिस्चार्ज होने की अवधि की भी जानकारी प्राप्त की। उन्होंने फीवर क्लीनिक के कार्यों पर निरंतर निगाह रखने के निर्देश कलेक्टर्स को दिए।बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव मोहम्मद सुलेमान एवं मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव मनीष रस्तोगी भी उपस्थित थे।मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से होम आइसोलेशन के मरीजों को दी जाने वाली मेडिकल चिकित्सा सुविधाओं की जानकारी लीं। उन्होंने चिकित्सालय में बेड की उपलब्धता, ऑक्सीजन बेड की स्थिति एवं डॉक्टर्स की उपलब्धता की समीक्षा की। कलेक्टर ग्वालियर द्वारा बताया गया कि शासकीय चिकित्सालयों के अलावा प्रायवेट हॉस्पिटल बिरला, कल्याण एवं अपोलो हास्पिटल में भी कोरोना उपचार में अच्छी सेवाएँ दी जा रही हैं।अपर मुख्य सचिव मो. सुलेमान ने बताया कि ग्वालियर, नरसिंहपुर, सागर, होशंगाबाद, खरगौन, दमोह, झाबुआ, शहडोल, बैतूल, छिन्दवाड़ा, सतना, धार एवं इंदौर में कोविड प्रकरणों की विस्तृत समीक्षा की गई है। अधिकांश स्थानों पर रिकवरी रेट बढ़ा है। कोविड के संबंध में फीवर क्लीनिक बहुत अच्छा काम कर रहे हैं। अभी 23 हजार टेस्टिंग की का चुकी है। बैठक में आयुक्त ग्वालियर को मेडिकल कॉलेजो में डेली रिव्यू सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए।

Dakhal News

Dakhal News 27 September 2020


bhopal,I assure you, your honor, respect, place and pride,never diminish, Shivraj Singh Chauhan

भोपाल।  सामाजिक न्याय, गरीबों और पिछड़ों की भलाई भारतीय जनता पार्टी के लक्ष्य रहे हैं और यही लक्ष्य लोक समता पार्टी के भी रहे हैं। जब दोनों के लक्ष्य समान हैं, तो फिर रास्ते क्यों अलग होना चाहिए? मैं भारतीय जनता पार्टी में आप सभी का स्वागत करता हूं और आपको विश्वास दिलाता हूं कि आप सभी का मान, सम्मान, स्थान और शान कभी कम नहीं होंगे। यह बात मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने रविवार को मुख्यमंत्री निवास पर लोक समता पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं को भाजपा में शामिल करते हुए कही। अध्यक्ष डॉ. राजकुमार कुशवाहा के नेतृत्व में लोक समता पार्टी का भारतीय जनता पार्टी में विलय हुआ। सदस्यता ग्रहण समारोह में प्रदेश सरकार के मंत्री भारतसिंह कुशवाहा उपस्थित थे।   गरीबों, पिछड़ों के लिए काम कर रही प्रदेश सरकार मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने सदस्यताग्रहण समारोह में उपस्थित कार्यकर्ताओं, पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि मैं गरीबों, पिछड़ों का दर्द जानता हूं और इसीलिए सरकार बनते ही सबसे पहले इसी वर्ग की चिंता की। उन्होंने कहा कि सरकार धन्ना सेठों की नहीं है, बल्कि गरीबों और पिछड़ों की ही है। इसलिए हमने फसलों को हुए नुकसान की राहत राशि देने, फसल बीमा का पैसा देने, सस्ता अनाज देने की व्यवस्था की। हमने गरीबों और पिछड़ों के लिए बनाई गई संबल योजना को हमने दोबारा शुरू किया। उन्होंने कहा कि मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि इस वर्ग के कल्याण के लिए कोई कसर नहीं छोड़ूंगा। हमारे लिए जनता ही भगवान है और उसकी सेवा ही पूजा है। आने वाले समय में हम सब मिलकर जनता की सेवा करेंगे तथा विकास और कल्याण के लिए काम करेंगे।   नीतियों से प्रभावित होकर किया विलयसमारोह में संबोधित करते हुए लोक समता पार्टी के अध्यक्ष डॉ. राजकुमार कुशवाहा ने कहा कि हम अपने लक्ष्यों को लेकर पूरी मजबूती से चले, लेकिन उनकी प्राप्ति में बहुत समय लग रहा था। ऐसे में हमें भारतीय जनता पार्टी और मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की नीतियों ने प्रभावित किया और उन्हीं से प्रभावित होकर पार्टी ने विलय का निर्णय लिया है। डॉ. कुशवाहा ने कहा कि मैं सभी कार्यकर्ताओं की ओर से यह विश्वास दिलाता हूं कि आने वाले समय में हम इन्हीं नीतियों, योजनाओं और कार्यक्रमों को जनता के बीच प्रचारित-प्रसारित करने का काम करेंगे। इस अवसर पर लोक समता पार्टी के मुन्नालाल बघेल,  सुरेश कुशवाह, नारायण सिंह भदौरिया, अतुल शास्त्री, लल्जा राम सहित अन्य नेता व कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 27 September 2020


bhopal, Scindia afraid, touring alone, walks with CM, Sajjan Singh

भोपाल। मध्य प्रदेश में होने वाले विधानसभा उपचुनावों के लिए राजनीतिक दलों ने तैयारियां तेज कर दी है। राजनीतिक सभाओं और रैलियों का दौर जारी है। सीएम शिवराज और सिंधिया की जोड़ी लगातार उपचुनाव क्षेत्रों में पहुंचकर जनता से संपर्क कर रही हैं और घोषणाएं कर जनता को खुश करने में जुटे हैं। सीएम शिवराज और सिंधिया के साथ दौरों पर कांग्रेस ने तंज कसा है। पूर्व मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस विधायक सज्जन सिंह वर्मा ने सिंधिया पर बड़ा हमला बोला है। पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने सीएम शिवराज के साथ सिंधिया के अकेले दौरे पर बड़ा हमला बोला है। रविवार को मीडिया से बातचीत करते हुए सज्जन सिंह, सिंधिया पर जमकर बरसें और कहा कि अकेले दौरा करने से सिंधिया डरते हैं इसीलिए वे सीएम शिवराज के साथ चलते हैं। पूर्व मंत्री यही नहीं रुके उन्होंने सिंधिया का घेराव करते हुए कहा कि ग्वालियर से सिंधिया की जमीन खिसक गई, सिंधिया भूमाफिया है, कहीं कोई पत्थर न फेंक दे इसलिए डरते हैं।   वहीं इसके अलावा सीएम शिवराज सिंह के भूमिपूजन, शिलान्यास कार्यक्रमों पर हमला बोलते हुए कहा कि प्रदेश का खजाना खाली है लेकिन शिवराज सिंह की घोषणाएं और भूमिपूजन जारी हैं। पूर्व मंत्री वर्मा ने कहा कि राज्यसभा सांसद विवेक तनखा ने चुनाव आयुक्त से इसकी शिकायत की है।

Dakhal News

Dakhal News 27 September 2020


sagar,Elevated corridor, improve traffic system, Sagar district, Minister Bhupendra Singh

सागर। नागरिकों को मूलभूत सुविधाएं प्रदान करना ही स्मार्ट सिटी का दायित्व है।  सागर की अव्यवस्थित यातायात व्यवस्था को सुचारू बनाने के लिये प्रथम चरण में 96 करोड़ की लागत से चकरा घाट से तीन मढ़िया बस स्टेण्ड तक एलीवेटेड कोरिडोर बनाया जाएगा। साथ ही आवारा पशुओं एवं शहर में घूम रहे निजी डेरी मालिकों के पशुओं से निजात दिलाने के लिये शहर के चारों तरफ डेरी विस्थापन का कार्य शीघ्र प्रारंभ किया जायेगा। उक्‍त बातें नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने शनिवार को सागर में स्मार्ट सिटी के लगभग 100 करोड़  की लागत के कार्यों के भूमिपूजन के दौरान कही।    मंत्री सिंह ने कहा कि सागर स्मार्ट सिटी के अंतर्गत सागर को स्मार्ट बनाने के साथ-साथ मूलभूत सुविधाएं प्रदान करने के लिये 1600 करोड़ प्रस्तावित हैं, जिसमें 250 करोड़ के कार्यों का भूमि पूजन किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि आज सागर में 100 करोड़ के कार्यों का भूमिपूजन किया जा रहा है, जिनमें 13 किमी स्मार्ट कोरीडोर, विश्वविद्यालय रोड का पुनरूद्धार, रैन बसेरा का निर्माण, 48 कक्षों का स्मार्ट रूम में परिवर्तन, कामकाजी महिलाओं के लिये वर्किंग वूमेन हॉस्टल एवं इलेक्ट्रिक शव-दाह गृह शामिल हैं।  उन्होंने कहा कि 20 करोड़ की लागत से सर्वसुविधायुक्त स्टेडियम, राजघाट सहित अन्य स्थानों पर सर्वसुविधायुक्त पार्कों का निर्माण किया जायेगा।   मंत्री सिंह ने कहा कि आने वाले समय में शहर के प्राचीन भवनों को चिन्हित कर पीपीपी मोड पर उनका संरक्षण कर व्यावसायिक काम्पलेक्स बनाने, बस स्टेण्ड के पास स्थित विद्युत मण्डल के कार्यालय को अन्यत्र स्थापित कर बड़ा प्रोजेक्ट लगाने एवं शहर के बीचों-बीच स्थापित जेल को अन्यत्र कर पीपीपी मोड पर आवासीय एवं व्यावासिक काम्पलेक्स बनाने की योजना है। उन्होंने मुक्तिधाम के लिये 1 करोड़, मुख्यमंत्री अधोसंरचना कार्यों के लिये 5 करोड़, 30 सिटी बस चलाने, इंक्यूवेशन सेंटर के लिये 10 करोड़ रूपये एवं नगर निगम कार्यालय बनाने के लिये डीपीआर तैयार करने के निर्देश दिये।   सांसद राजबहादुर सिंह ठाकुर ने  कहा कि मंत्री सिंह की सोच बहुत अच्छी है। इससे सागर अवश्य विकास करेगा। विधायक शैलेन्द्र जैन ने कहा कि आज का दिन ऐतिहासिक है। आज से सागर के विकास की इबारत लिखी जायेगी। इस मौके पर स्थानीय जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे। 

Dakhal News

Dakhal News 26 September 2020


bhopal,Congress demands, remove Indore Collector , file case ,against CM Shivraj

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता एवं चुनाव आयोग कार्य प्रभारी जेपी धनोपिया ने शनिवार को मुख्य निर्वाचन आयुक्त भारत निर्वाचन आयोग को दो अलग अलग शिकायतें सौंपकर इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह को तत्काल स्थानांतरित किये जाने एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा ट्वीट को लेकर प्रकरण दर्ज किये जाने की मांग की है।   धनोपिया ने अपने पत्र में कहा है कि 25 सितम्बर, 2020 को भारत निर्वाचन आयोग द्वारा चुनावों की घोषणा कर दी गई है तथा स्पष्ट रूप से उल्लेखित किया है कि मध्यप्रदेश में होने वाले 28 विधानसभा क्षेत्रों के उप चुनाव के कार्यक्रम की घोषणा 29/9/2020 को की जाऐगी, चुनाव कार्यक्रम घोषित होना शेष है, ऐसी स्थिति में शासकीय अधिकारियों खासकर कलेक्टर्स की भूमिका निष्पक्ष होना शासकीय प्रक्रिया का एक अंग होता है, लेकिन खेद है कि इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के चहेते हैं, उनके द्वारा शासकीय कार्यक्रमों के नाम पर होने वाले चुनावी सभा सांवेर विधानसभा क्षेत्र में आज आयोजित है, उस कार्यक्रम में आमजनों को लाने-ले जाने के लिए करीब 600 बसों को आरटीओ द्वारा अधिग्रहित कराया गया और उन बसों में पेट्रोल-डीजल शासन द्वारा उपलब्ध कराए जाने के संबंध में आदेश पत्र जारी किया गया। जिसमें सांवेर क्षेत्र के लिए आसपास के 41 पेट्रोल पम्पस को आदेशित किया गया है कि उक्त अधिग्रहित की गई 600 बसें बिना भुगतान किए पेट्रोल/डीजल की पूर्ति की जाना है।    उन्होंने कहा है कि सांवेर विधानसभा क्षेत्र में शासकीय कार्यक्रम की आड़ में विशाल चुनावी आमसभा आयोजित की जा रही है, जिसमें भाजपा के उम्मीदवार सहित भाजपा नेताओं को उपकृत किया गया है। यह शासकीय धन का दुरुपयोग है। इसमें इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह की विशेष भूमिका है।    वहीं धनोपिया ने दूसरी शिकायत में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के ट्वीट को लेकर उनके खिलाफ प्रकरण दर्ज किये जाने की मांग की है। धनोपिया ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री जैसे पद पर पदस्थ रहते हुए शिवराजसिंह चौहान द्वारा चुनाव आयोग के दिशा निर्देशों का मजाक उड़ाया गया। उन्होंने ट्वीट किया है कि ‘मेरे प्रिय दोस्तों मध्यप्रदेश, बिहार, कर्नाटक सहित देश भर में कई जगह चुनाव होने वाले हैं। हमें कोरोना काल को देखते हुए चुनाव आयोग के दिशा निर्देशों का पूरा ध्यान रखना है, हाथ पूरी तरह सैनीटाइज कर साफ कर देना है’। धनोपिया ने इस ट्वीट को चुनाव आयोग का अपमान बताया है।    धनोपिया ने भारत निर्वाचन आयुक्त से मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी की ओर से निवेदन है कि निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों को तोड़ मरोडक़र मुख्यमंत्री चौहान द्वारा ट्वीट कर चुनाव आयुक्त की अवमानना की है, के संदर्भ में उनके विरूद्ध अपराधिक प्रकरण दर्ज कर कार्यवाही की जाना चाहिए, जिससे कि भारत निर्वाचन आयोग की भविष्य में कोई अन्य व्यक्ति अवमानना न कर सके। वहीं दूसरी शिकायत के आधार पर कलेक्टर मनीष सिंह को तत्काल पद से हटाया जाये, जिससे कि मध्यप्रदेश में होने वाले 28 विधान सभा के उप चुनाव निष्पक्ष एवं स्वतंत्र रूप से सम्पन्न हो सकेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 26 September 2020


raisen,Health Minister ,provided certificates , beneficiaries ,Chief Minister Kisan Kalyan Yojana

रायसेन। मध्यप्रदेश में गरीब कल्याण पखवाड़े के अंतर्गत मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा शनिवार को भोपाल से "मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना" के हितग्राही किसानों के बैंक खातों में सम्मान निधि की राशि अंतरित की गई और हितग्राही किसानों से सम्वाद किया गया। कलेक्ट्रेट कार्यालय स्थित एनआईसी कक्ष में स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, कलेक्टर उमाशंकर भार्गव तथा किसानों ने कार्यक्रम का सीधा प्रसारण देखा।   इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत पीएम किसान सम्मान निधि योजना के पात्र प्रदेश के 77 लाख कृषक परिवारों को चार हजार रुपये सम्मान निधि प्रति वर्ष दो समान किस्तों में मिलेगी। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा किसानों के हित में महत्वपूर्ण निर्णय लिए जा रहे हैं। पहले किसानों को जीरो प्रतिशत ब्याज दर पर फसल ऋण उपलब्ध कराने की योजना प्रारंभ की गई। फिर उनके खातों में गत वर्षो की फसल बीमा की राशि डाली गई। क्रेडिट कार्ड प्राप्त होने से बचे हुए प्रदेश के 67 हजार किसानों, पशुपालकों तथा मत्स्य पालकों को किसान क्रेडिट कार्ड वितरित किए गए।    स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी द्वारा हितग्राही किसान ग्राम धनोरा निवासी बाबूलाल जाटव, रतनपुर निवासी  मचल सिंह, विरहौली निवासी चिरोंजीलाल जाटव, ब्यावरा निवासी राजेश कुमार तथा बगरौदा निवासी  प्रकाशचंद को प्रमाण पत्र प्रदान किए गए। इस अवसर पर अपर कलेक्टर अनिल डामोर, एसएलआर  विजय सराकिया सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 26 September 2020


bhopal,Scindia met ,Finance Minister, Jagdish Deora , went to Kushalakeshm

भोपाल। वरिष्ठ भाजपा नेता और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया इन दिनों मप्र में है और चुनावी दौरों में व्यस्त है। इस बीच शुक्रवार को सिंधिया समय निकालकर वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा का हालचाल जानने उनके निवास पहुंचे। यहां उन्होंने मंत्री देवड़ा से उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछा और थोड़ी देर बार रवाना हो गए।   वित्त मन्त्री जगदीश देवड़ा से मुलाकात के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि जगदीश देवड़ा के स्वास्थ्य में बेहतर सुधार है। अब वे 99 प्रतिशत ठीक हो चुके है। मुझे पूरा विश्वास है वे जल्द ठीक होकर जनता की सेवा करेंगे। जगदीश देवड़ा की हाल ही में एंजियोप्लास्टी हुई है। मैं उनका कुशलक्षेम पूछने आया था। मुलाकात के बाद सिंधिया, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के साथ चुनावी दौरे पर रवाना हो गए। गौरतलब है कि मंत्री देवड़ा को हृदय संबंधित बीमारी के चलते पिछले दिनों दिल्ली के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वित्त मंत्री ने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी।

Dakhal News

Dakhal News 25 September 2020


bhopal, Agriculture Minister, wrote letter,Black Listed Society

भोपाल। मध्य प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल पर कांग्रेस ने बड़ा आरोप लगाया है। कांग्रेस का आरोप है कि हरदा में एक किसान सूरज द्वारा जहर पी लेने और आत्महत्या का प्रयास करने के मामले में कमल पटेल के भ्रष्ट अफसरों से रिश्ते सामने आ गए हैं। इस संबंध में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता कहा कहना है कि ब्लैक लिस्टेड चोपड़ा सोसाइटी को वापस सर्वे सूची में लाने के लिए कलेक्टर पर दबाव बनाने पत्र लिखा था। उन्होंने मंत्री के पत्रों की छाया प्रतियां जारी कर कहा है कि वे बतायें ये रिश्ता क्या कहलाता है?   कांग्रेस नेता भूपेन्द्र गुप्ता ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर अपने आरोपों में यह भी कहा है कि जिस भ्रष्ट अधिकारी ने किसानों की प्रताडऩा की और किसान आत्मघात के लिए मजबूर हुए, उस अधिकारी ने किसान के बाजू में खड़े होने के बावजूद उसे जहर पीने से नहीं रोका। ऐसे निर्दय अधिकारी के लिए भी कृषि कल्याण मंत्री कमल पटेल ने प्रशस्ति पत्र जारी किया था।   कांग्रेस नेता भूपेन्द्र गुप्ता ने कृषि मंत्री कमल पटेल से किसानों को लेकर सवाल पूछे है, जिसमें उन्होंने कहा कि ब्लैक लिस्टेड चोपड़ा समिति को ब्लैक लिस्ट की सूची से बाहर करने के लिए 14 अप्रैल 2020 को कमल पटेल ने कलेक्टर हरदा को पत्र क्यों लिखा? साथ ही उन्होंने यह भी पूछा है कि किसानों को प्रताडि़त करने के आरोपी असिस्टेंट रजिस्ट्रार अखिलेश चौहान को अगस्त 2020 में प्रशस्ति पत्र क्यों दिया? मंत्री कमल पटेल बताएं कि चोपड़ा की समिति के वरिष्ठ प्रबंधक को बचाने में उनके क्या स्वार्थ जुड़े हुए हैं? 100 से अधिक किसानों का चना का भुगतान बाकी क्यों है? भूपेंद्र गुप्ता ने कृषि मंत्री को बर्खास्त करने की करते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कृषि कल्याण मंत्री की आरोपियों के साथ सांठगांठ की जांच कराएं और ऐसे किसान विरोधी मंत्री को तत्काल बाहर का रास्ता दिखाएं।  

Dakhal News

Dakhal News 25 September 2020


bhopal, CM Shivraj salutes, 104th birth anniversary , Pandit Deendayal Upadhyay

भोपाल। एकात्म मानववाद और अंत्योदय दर्शन के प्रणेता पंडित दीनदयाल उपाध्याय की आज शुक्रवार को 104वीं जयंती है। वे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संगठनकर्ता और भारतीय जनसंघ के अध्यक्ष रहे। पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर आज देशभर में भाजपा कार्यकर्ता उनके व्यक्तित्व और कृतित्व को याद कर रहे हैं। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर उन्हें स्मरण कर नमन किया है।   मुख्यमंत्री शिवराज ने ट्वीट कर कहा है, ‘सबसे जरूरी है कि हम हमारी राष्ट्रीय पहचान के बारे में सोचें, जिसके बिना आजादी का कोई अर्थ नहीं होता- पं. दीनदयाल जी। प्रखर राष्ट्रवादी, जनसंघ के पूर्व अध्यक्ष और अंत्योदय व एकात्म मानववाद के प्रणेता, श्रद्धेय स्व. पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की जयंती पर उनके चरणों में कोटिश: नमन!'   एक अन्य ट्वीट कर शिवराज ने कहा है कि देश को 'एकात्म मानववाद' के रूप में पं. दीनदयाल उपाध्याय ने ऐसा श्रेष्ठ विचार दिया है, जिसमें अतीत से जुड़े रहते हुए भविष्य के समर्थ एवं सशक्त भारत का निर्माण संभव है। उनके विचारों के प्रकाश पथ पर चलकर जिस भारत का निर्माण होगा, उस पर प्रत्येक भारतीय को गर्व होगा। सरल एवं सहज व्यक्तित्व के धनी, मां भारती के सच्चे सेवक, पंडित दीनदयाल उपाध्याय अपने विचारों की एक ऐसी अखण्ड ज्योति छोड़कर गए हैं, जिसके प्रकाश में भारत की भावी पीढ़ियां सर्वदा आलोकित  होती रहेंगी। हमारे पथ प्रदर्शक, राष्ट्र के महान निर्माता के चरणों में सादर प्रणाम!

Dakhal News

Dakhal News 25 September 2020


bhopal, Agriculture Minister, wrote letter, Black Listed Society

भोपाल। एकात्म मानववाद और अंत्योदय दर्शन के प्रणेता पंडित दीनदयाल उपाध्याय की आज शुक्रवार को 104वीं जयंती है। वे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संगठनकर्ता और भारतीय जनसंघ के अध्यक्ष रहे। पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर आज देशभर में भाजपा कार्यकर्ता उनके व्यक्तित्व और कृतित्व को याद कर रहे हैं। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर उन्हें स्मरण कर नमन किया है।   मुख्यमंत्री शिवराज ने ट्वीट कर कहा है, ‘सबसे जरूरी है कि हम हमारी राष्ट्रीय पहचान के बारे में सोचें, जिसके बिना आजादी का कोई अर्थ नहीं होता- पं. दीनदयाल जी। प्रखर राष्ट्रवादी, जनसंघ के पूर्व अध्यक्ष और अंत्योदय व एकात्म मानववाद के प्रणेता, श्रद्धेय स्व. पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की जयंती पर उनके चरणों में कोटिश: नमन!'   एक अन्य ट्वीट कर शिवराज ने कहा है कि देश को 'एकात्म मानववाद' के रूप में पं. दीनदयाल उपाध्याय ने ऐसा श्रेष्ठ विचार दिया है, जिसमें अतीत से जुड़े रहते हुए भविष्य के समर्थ एवं सशक्त भारत का निर्माण संभव है। उनके विचारों के प्रकाश पथ पर चलकर जिस भारत का निर्माण होगा, उस पर प्रत्येक भारतीय को गर्व होगा। सरल एवं सहज व्यक्तित्व के धनी, मां भारती के सच्चे सेवक, पंडित दीनदयाल उपाध्याय अपने विचारों की एक ऐसी अखण्ड ज्योति छोड़कर गए हैं, जिसके प्रकाश में भारत की भावी पीढ़ियां सर्वदा आलोकित  होती रहेंगी। हमारे पथ प्रदर्शक, राष्ट्र के महान निर्माता के चरणों में सादर प्रणाम!

Dakhal News

Dakhal News 25 September 2020


gwalior, Sambal Yojana ,given huge support ,needy ,times of crisis, Imarti Devi

ग्वालियर। असहायों एवं गरीबों को संकट के समय सहारा देने के लिये प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री जन कल्याण (संबल) योजना चलाई जा रही है। हम सभी का दायित्व है कि कोई भी पात्र परिवार इस योजना से वंचित न रह जाए। यह बात प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने कही। इमरती देवी ने बुधवार को डबरा के कम्युनिटी हॉल में आयोजित हुए कार्यक्रम में संबल योजना के हितग्राहियों को अनुग्रह सहायता राशि के स्वीकृति पत्र वितरित कर रही थीं।    महिला-बाल विकास मंत्री ने इस अवसर पर डबरा ग्रामीण एवं नगर पालिका क्षेत्र के 14 हितग्राहियों को अनुग्रह राशि के स्वीकृति पत्र सौंपे। साथ ही सभी हितग्राहियों को भरोसा दिलाया कि सरकार की अन्य योजनाओं के तहत उन्हें लाभान्वित कराया जायेगा।    उन्होंने कहा संबल योजना के तहत पंजीकृत परिवार के मुखिया की सामान्य मृत्यु पर 2 लाख व दुर्घटना में मृत्यु होने पर 4 लाख रूपए की अनुग्रह राशि सीधे आश्रित सदस्य के खाते में पहुँचाई जाती है। ज्ञात हो गरीब कल्याण पखवाड़े के तहत प्रदेशव्यापी कार्यक्रम मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के मुख्य आतिथ्य में बुधवार को भोपाल के मिंटो हॉल में आयोजित किया गया। जिसमें मुख्यमंत्री श्री चौहान ने संबल योजना के तहत प्रदेश के 3 हजार 700 हितग्राहियों के खातों में 80 करोड़ रूपए की अनुग्रह राशि अंतरित की। जिला पंचायत के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. विजय दुबे ने इस अवसर पर जानकारी दी कि जनपद पंचायत डबरा के अंतर्गत विभिन्न ग्रामों में निवासरत संबल योजना के तहत 231 हितग्राहियों को अनुग्रह सहायता राशि प्रदान की जा चुकी है। इसी तरह नगर पालिका डबरा के अंतर्गत 103 हितग्राहियों को सहायता दी गई है। डबरा में आयोजित हुए कार्यक्रम में जिला पंचायत के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. विजय दुबे, मुख्य नगर पालिका अधिकारी डबरा प्रदीप भदौरिया एवं जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी कुलदीप श्रीवास्तव सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद थे। 

Dakhal News

Dakhal News 23 September 2020


indore,Saspa denied, merger with BJP, CM Shivraj tweeted

इंदौर। संपूर्ण समाज पार्टी (ससपा) के विभिन्न पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के भाजपा में शामिल होने के बाद भाजपा और ससपा के विलय की खबरों का पार्टी के पदाधिकारियों ने खंडन किया है। पार्टी के महासचिव ने बुधवार को एक बयान जारी कर कहा है कि भाजपा में शामिल होने वाले प्रदेश अध्यक्ष विजय सिकरवार और 3 जिलों के पदाधिकारियों ने पार्टी छोड़ी है।   गौरतलब है कि मंगलवार को ससपा के विजय सिंह सिकरवार व विभिन्न पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं भाजपा में शामिल हुए थे। सीएम शिवराज ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई थी। इसके बाद सीएम शिवराज ने ट्वीट कर जानकारी दी थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि आज सम्पूर्ण समाज पार्टी (ससपा) का भारतीय जनता पार्टी में विलय हुआ। ससपा के श्री विजय सिंह सिकरवार व विभिन्न पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को भाजपा की सदस्यता दिलाई। @BJPyMP परिवार का हिस्सा बने सभी साथियों का स्वागत करता हूं। हम सब पूरी निष्ठा और समर्पण से प्रदेश की सेवा करेंगे। मुझे विश्वास है कि आप सभी 'ससपा' के साथियों के सहयोग से अंत्योदय के लक्ष्य एवं प्रदेश की उन्नति व प्रगति के कार्यों को गति मिलेगी। हम सब मिलकर माननीय प्रधानमंत्री श्री @narendramodi जी के सपनों के #AatmaNirbharBharat एवं सशक्त भारत के निर्माण के ध्येय को पूरा करेंगे। बता दें कि 2018 के विधानसभा चुनाव में संपूर्ण समाज पार्टी ने अपने उम्मीदवार उतारे थे। पार्टी की बुनियाद आर्थिक आधार पर आरक्षण देने की मांग को लेकर पड़ी थी।  

Dakhal News

Dakhal News 23 September 2020


dhar, Case registered ,against Minister Dattigaon ,sharing objectionable post

धार। प्रदेश के औद्योगिक निवेश मंत्री राजवर्धन सिंह दत्तीगांव को लेकर फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट करने वाले एक व्यक्ति के विरुद्ध बदनावर थाने में बीती देर रात प्रकरण दर्ज किया गया है। आरोपित की अभी गिरफ्तारी नहीं हो पाई है।   जानकारी के अनुसार मंत्री दत्तीगांव के समर्थक विवेक पुत्र भरत लाल पाटीदार निवासी बदनावर ने एक आवेदन प्रस्तुत किया, जिसमें बताया गया कि इंदौर निवासी कांग्रेस कार्यकर्ता आरबी भदौरिया ने अपने फेसबुक पर औद्योगिक निवेश मंत्री राजवर्धन सिंह दत्तीगांव के विरुद्ध आपत्तिजनक पोस्ट शेयर की है। पाटीदार ने आवेदन के साथ मोबाइल के स्क्रीन शॉट की कॉपी भी लगाई है, जो जिला दंडाधिकारी के आदेश 19-08-2020 से दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के अंतर्गत सम्पूर्ण जिले में निषेधाज्ञा आदेश पारित किया गया है, उसका स्पष्ट उल्लंघन है। बदनावर पुलिस ने आरोपित भदौरिया के विरुद्ध धारा 188 भादवि की परिधि में आने से अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया है। मामले में आरोपित फरार है।

Dakhal News

Dakhal News 23 September 2020


bhopal, Jams of rain, begin in MP, Orange and Yellow alerts issued , many districts

भोपाल। मध्यप्रदेश में एक बार फिर बारिश का दौर शुरु हो गया है। बंगाल की खाड़ी में बने निम्नदाब के क्षेत्र के कारण प्रदेश के अधिकतर जिलों में बारिश हो रही है। मंगलवार सुबह से झाबुआ और भोपाल समेत कई जिलों में झमाझम बारिश का दौर जारी है। मौसम विभाग ने मंगलवार को कई जिलों में अति भारी और भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। विभाग ने आज एक साथ येलो और ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने 10 संभागों और करीब एक दर्जन जिलों में गरज चमक के साथ भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। इसी के चलते देर रात तवा डेम के 3 गेट खोल दिए गए है। वही अन्य बांधों के गेट खोलने की संभावना है। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बन गया है, जिसके चलते प्रदेश में तीन-चार दिन तक अच्छी बरसात होने की संभावना है। मंगलवार को रीवा, शहडोल, जबलपुर, सागर संभाग में कई स्थानों पर भारी वर्षा हो सकती है। इंदौर, उज्जैन, होशंगाबाद, भोपाल संभाग के जिलों में गरज-चमक के साथ तेज बौछारें पड़ सकती हैं। वही ग्वालियर चंबल संभाग में मंगलवार को मध्यम बारिश का दौर शुरू होने के आसार है। 23 सितंबर को ग्वालियर, मुरैना, भिंड, दतिया, शिवपुरी, श्योपुर, गुना, अशोकनगर में कहीं कहीं भारी बारिश भी हो सकती है। इसके प्रभाव से धीरे-धीरे बारिश की गतिविधियों में वृद्धि देखने को मिलेगी। मध्य प्रदेश के पूर्वी तथा मध्य क्षेत्रों में कम से कम 25 सितंबर तक कई जगहों पर मध्यम से भारी मॉनसूनी वर्षा होती रहेगी। 24 सितंबर के बाद आसमान साफ हो जाएगा। उसके बाद मानसून की विदाई की शुरुआत हो जाएगी।   तवा डेम के तीन गेट खोले इटारसी और आसपास के क्षेत्रों में देर रात फिर मॉनसून सक्रिय हो गया जिसके कारण बीती रात को दो बजे, तवाडेम के तीन गेटों को तीन-तीन फीट पर खोला गया है। हजार क्यूसेक पानी नर्मदा नदी में छोड़ा जा रहा, वहीं तवाडेम का जल स्तर 1,166 फीट है। बारिश हो जाने से जहां तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई जिससे लोगों को भीषण गर्मी और उमस से राहत मिली है, लेकिन इस बारिश ने किसानों की सोयाबीन और धान की फसल को लेकर चिंता बढ़ा दी है। तवा डेम के तीन गेटों से पानी छोड़े जाने के बाद नर्मदा नदी के जलस्तर में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। फिलहाल डेम का वॉटर लेवल 1,166 फीट पर है, वहीं एसडीओ ने बताया कि बारिश से डेम से एचईजी को बिजली बनाने के लिए 20 हजार क्यूसेक पानी दिया जा रहा है।   इन जिलों में अति भारी बारिश की चेतावनी (ऑरेंज अलर्ट)शहडोल संभाग के जिले,  विदिशा, बालाघाट, रायसेन जिलों में।इन जिलों में भारी बारिश की चेतावनी (येलो अलर्ट)सागर और होशंगाबाद संभाग के जिले, रीवा , सतना, सीहोर, राजगढ, अलीराजपुर, झाबुआ, धार, देवास, शाजापुर, अशोकनगर।   इन संभागों में कही गरज चमक के साथ बारिशरीवा, जबलपुर, शहडोल, भोपाल, उज्जैन, इंदौर, होशंगबाद,सागर, ग्वालियर और चंबल संभागों के जिलों में कहींं-कहींं।

Dakhal News

Dakhal News 22 September 2020


bhopal, Jams of rain, begin in MP, Orange and Yellow alerts issued , many districts

भोपाल। मध्यप्रदेश में एक बार फिर बारिश का दौर शुरु हो गया है। बंगाल की खाड़ी में बने निम्नदाब के क्षेत्र के कारण प्रदेश के अधिकतर जिलों में बारिश हो रही है। मंगलवार सुबह से झाबुआ और भोपाल समेत कई जिलों में झमाझम बारिश का दौर जारी है। मौसम विभाग ने मंगलवार को कई जिलों में अति भारी और भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। विभाग ने आज एक साथ येलो और ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने 10 संभागों और करीब एक दर्जन जिलों में गरज चमक के साथ भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। इसी के चलते देर रात तवा डेम के 3 गेट खोल दिए गए है। वही अन्य बांधों के गेट खोलने की संभावना है। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बन गया है, जिसके चलते प्रदेश में तीन-चार दिन तक अच्छी बरसात होने की संभावना है। मंगलवार को रीवा, शहडोल, जबलपुर, सागर संभाग में कई स्थानों पर भारी वर्षा हो सकती है। इंदौर, उज्जैन, होशंगाबाद, भोपाल संभाग के जिलों में गरज-चमक के साथ तेज बौछारें पड़ सकती हैं। वही ग्वालियर चंबल संभाग में मंगलवार को मध्यम बारिश का दौर शुरू होने के आसार है। 23 सितंबर को ग्वालियर, मुरैना, भिंड, दतिया, शिवपुरी, श्योपुर, गुना, अशोकनगर में कहीं कहीं भारी बारिश भी हो सकती है। इसके प्रभाव से धीरे-धीरे बारिश की गतिविधियों में वृद्धि देखने को मिलेगी। मध्य प्रदेश के पूर्वी तथा मध्य क्षेत्रों में कम से कम 25 सितंबर तक कई जगहों पर मध्यम से भारी मॉनसूनी वर्षा होती रहेगी। 24 सितंबर के बाद आसमान साफ हो जाएगा। उसके बाद मानसून की विदाई की शुरुआत हो जाएगी।   तवा डेम के तीन गेट खोले इटारसी और आसपास के क्षेत्रों में देर रात फिर मॉनसून सक्रिय हो गया जिसके कारण बीती रात को दो बजे, तवाडेम के तीन गेटों को तीन-तीन फीट पर खोला गया है। हजार क्यूसेक पानी नर्मदा नदी में छोड़ा जा रहा, वहीं तवाडेम का जल स्तर 1,166 फीट है। बारिश हो जाने से जहां तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई जिससे लोगों को भीषण गर्मी और उमस से राहत मिली है, लेकिन इस बारिश ने किसानों की सोयाबीन और धान की फसल को लेकर चिंता बढ़ा दी है। तवा डेम के तीन गेटों से पानी छोड़े जाने के बाद नर्मदा नदी के जलस्तर में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। फिलहाल डेम का वॉटर लेवल 1,166 फीट पर है, वहीं एसडीओ ने बताया कि बारिश से डेम से एचईजी को बिजली बनाने के लिए 20 हजार क्यूसेक पानी दिया जा रहा है।   इन जिलों में अति भारी बारिश की चेतावनी (ऑरेंज अलर्ट)शहडोल संभाग के जिले,  विदिशा, बालाघाट, रायसेन जिलों में।इन जिलों में भारी बारिश की चेतावनी (येलो अलर्ट)सागर और होशंगाबाद संभाग के जिले, रीवा , सतना, सीहोर, राजगढ, अलीराजपुर, झाबुआ, धार, देवास, शाजापुर, अशोकनगर।   इन संभागों में कही गरज चमक के साथ बारिशरीवा, जबलपुर, शहडोल, भोपाल, उज्जैन, इंदौर, होशंगबाद,सागर, ग्वालियर और चंबल संभागों के जिलों में कहींं-कहींं।

Dakhal News

Dakhal News 22 September 2020


bhopal, Expose lies, Shivraj government, apologize to farmers, Sachin Yadav

भोपाल। कमलनाथ सरकार में मंत्री रहे कांग्रेस विधायक सचिन यादव सरकार पर जमकर बरसे। उन्होंने मंगलवार को प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में एक पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए प्रदेश सरकार पर अनैतिक तरीके से सरकार के बनाने और किसान ऋण माफी को लेकर झूठ बोलने के आरोप लगाए। सचिन यादव ने कहा कि प्रदेश की 8 करोड़ जनता कि किस तरह प्रदेश में अनैतिक संसाधनों से बहुमत बनाकर बनी सरकार पहले दिन से ही किसान फसल ऋण माफी योजना को लेकर जनता के साथ झूठ बोल रही है। पहले यह कहा गया कि कोई कर्ज ही माफ नहीं किया गया। फिर कहा गया 2 लाख तक का माफ नहीं किया, फिर कहा गया 2 रुपये चार रुपये किया गया। फिर बोले 10 दिन में नहीं किया गया। लगातार झूठ बोलते बोलते जनता को गुमराह करने की सरकार कोशिश करती रही लेकिन सच तो किसान जानते थे।   सचिन यादव ने कहा कि कमलनाथ बार बार इसीलिये कहते थे उन्हें भाजपा के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं, जनता के सर्टिफिकेट की जरूरत है। आपको अच्छी तरह याद होगा कि प्रदेश के किसान कल्याण मंत्री कमल पटेल घोषणा करते रहे कि कमलनाथ सरकार ने किसानों के साथ धोखा किया झूठे ऋण माफी प्रमाण पत्र बांटे गए और यह भी कि कमल पटेल कमलनाथ जी के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कराएंगे। भाजपा के झूठ और मिथ्याचरण के खिलाफ जब कमलनाथ ने ग्वालियर की सभा में शंखनाद किया और शिवराज सिंह को खुली चुनौती दी कि एक मंच पर आकर शिवराज अपनी 15 साल की सरकार का हिसाब दें और मैं 15 महीने की सरकार का एक-एक दिन का हिसाब देने तैयार हूं। इस चुनौती के बाद फिर से शिवराज सिंह ने आगरा और सुवासरा की सभाओं में अपने नियमित झूठ को दोहराया।   सचिन यादव ने कहा कि सभी जानते हैं कि सत्य कभी पराजित नहीं होता भारत की चेतन संस्कृति में विश्वास करने वाले करोड़ों अरबों लोग जानते हैं और मानते हैं कि 'सत्यमेव जयते'। सत्य की जीत होती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की विधानसभा के ताजा सत्र में किसान कल्याण मंत्री कमल पटेल ने जो एफआईआर करने का दम भरते थे। खुद विधानसभा के पटल पर स्वीकार किया कि कमलनाथ जी की सरकार ने प्रथम चरण में 2023136 किसानों का 7108 करोड़ का कर्ज माफ किया दूसरे चरण में 672245 किसानों का 4538 करोड़ माफ करने की स्वीकृति दी गई एवं 590848 किसानों का 7492 करोड़ स्वीकृति हेतु शेष है। अब भाजपा सरकार ने अधिकृत रूप से कर्जमाफी को स्वीकार कर लिया है।   उन्होंने कहा कि लोग कितने झूठे हैं और राजनीति में झूठ के माध्यम से जनता में भ्रम फैलाने की कुटिल राजनीति करते हैं। सच को जानते हुए भी लगातार झूठ पर झूठ बोलते जाते हैं विधानसभा सभा के मानस पटल पर रखी गई, यह जानकारी इस बात की गवाह है। विगत 6 माह से बोला गया झूठ आज मंत्री कमल पटेल के मुंह से ही धूल चाट रहा है, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह एवं उनके नेता बार-बार यही कहते रहे हैं कि केवल जिन क्षेत्रों में उपचुनाव है वहीं- वहीं के ऋण माफ किए गए हैं। विधानसभा के पटल पर रखी गई जानकारी के अनुसार यह झूठ-2 भी बेनकाब हो गया। स्वयं सरकार और किसान कल्याण मंत्री ने विधानसभा में पूरे 51 जिलों की ऋण माफी की सूची भी जारी की है इससे यह स्पष्ट हो गया है कि भाजपा और उसके नेता जनता से सच बोलने से परहेज करते हैं। आपके संदर्भ के लिए विधानसभा में दिए गए उत्तरों की छाया प्रति हम आपको दे रहे हैं। जो यह सिद्ध करेंगे की छल से सरकार बनाने वाले अब छल और छद्म से सरकार बचाना चाहते हैं। जिसे शिवराज जी के कृषि कल्याण मंत्री ने ही बेनकाब कर दिया। प्रधानमंत्री किसान बीमा योजना के संबंध में भी सरकार सच सामने नहीं आने देना चाहती यह पोल भी केंद्र सरकार ने खोल ही दी है।   सचिन यादव ने आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा के 15 साल के शासन में 18 हजार किसानों ने आत्महत्या की थी, किसानों की छाती पर गोलियां दागीं गईं। कांग्रेस पार्टी फिर प्रदेश के किसानों को आश्वस्त करती है कि सरकार में वापिस आते ही शेष किसानों के कर्ज माफ कर दिये जायेंगे। किसानों के खिलाफ आ रहे अध्यादेशों को प्रदेश में बिना किसानों की सहमति लागू नहीं होने देगी। प्रदेश को सैकड़ों साल पुरानी जमींदारी की जकडऩ हम नहीं आने देंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस मांग करती है कि शेष किसानों का ऋण शिवराज सरकार माफ करे और समय सीमा भी बताये।

Dakhal News

Dakhal News 22 September 2020


mandsour, BJP gains power ,conspiring, people teach lesson, by-elections

मंदसौर। आगामी विधानसभा क्षेत्र के उपचुनाव निर्णायक भूमिका निर्वाह करेंगे एवं मतदाता प्रजातंत्र की हत्या करने वाले गद्दारों को सबक सिखाएंगे। उपचुनाव धर्म-अधर्म की लड़ाई है, प्रदेश की जनता ने कांग्रेस को बहुमत दिया था कमलनाथ सरकार ने कई ऐतिहासिक कदम उठाए थे, जिससे तिलमिलाकर भाजपा ने षडयंत्र पूर्वक चुनी हुई सरकार को गिराने में अग्रणी भूमिका निर्वाह की। सरकार के साथ गद्दारी करने वाले 25 विधायकों को भाजपा मैदान में उतार रहे हैं उन्हें जनता ही सबक सिखाएगी। उक्त उद्बोधन कंप्यूटर बाबा ने मंगलवार को मीडिया बातचीत में व्यक्त किए।   सुवासरा विधानसभा क्षेत्र के दो दिवसीय प्रवास पर आए कंप्यूटर बाबा ने मीडिया से बातचीत मेंं कहा कि संत समाज इस धर्म के खिलाफ है एवं प्रजातंत्र की हत्या करने वाले बागी विधायकों व भाजपा के खिलाफ प्रचार कर लोगों को इनके षडयंत्रों से अवगत करवा कर अपने मताधिकार के माध्यम से कड़ा जवाब देने का आह्वान करेंगे। उन्‍होंने कहा कि कमलनाथ सरकार ने अपने अल्प कार्यकाल में जन हितेषी कदम उठाए थे, जिससे उनकी लोकप्रियता बढ़ने लगी थी, यह देखकर भाजपा ने षड्यंत्र रच कर सरकार हथियाकर प्रजातंत्र का गला घोट दिया। लेकिन अब जनता ही उन्‍हें उप चुनाव में सबक सिखाएगी।

Dakhal News

Dakhal News 22 September 2020


bhopal, MP government, made several important ,decisions, Minister Patel

भोपाल। पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभाग राम खिलावन पटेल ने कहा कि प्रदेश में किसानों के हितों का संरक्षण राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसानों की आय दोगुनी हो सके इसके लिये राज्य सरकार ने किसान हित में अनेक महत्वपूर्ण फैसले लिये है। उक्‍त बातें राज्य मंत्री पटेल ने मंगलवार को भोपाल सेन्ट्रल कॉपरेटिव बैंक की न्यू मार्केट स्थित बैंक शाखा में ''सबको साख सबका विकास'' कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही।   राज्य मंत्री पटेल ने कहा कि किसानों को कृषि ऋण पर पहले 7 प्रतिशत ब्याज देना पड़ता था। किसानों को आर्थिक रूप से मजबूत करने के लिये राज्य सरकार ने किसानों के हित में महत्वपूर्ण फैसला लिया है। अब किसान को एक लाख रुपये का कृषि ऋण लेने पर मात्र 90 हजार रूपये ही लौटाने होते है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसानों को खेती के अलावा उससे जुड़ी गतिविधियों जैसे उद्यानिकी, पशुपालन और मत्स्य पालन जैसी गतिविधियों की और प्रोत्साहित किया जा रहा है।   उपायुक्त सहकारिता विनोद कुमार सिंह ने बताया कि भोपाल जिले में सहकारिता के क्षेत्र में प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्था के माध्यम से नवीन 1039 किसानों को 8 करोड़ 70 लाख रुपये की साख सीमा स्वीकृत की गई है। उन्होंने बताया कि जिले में अब तक 38 हजार 452 किसान क्रेडिट कार्ड जारी किये जा चके है। उपायुक्त सहकारिता ने बताया कि ''सबको साख सबका विकास'' कार्यक्रम का प्रसारण जिले की 7 कृषि शाखा, 34 प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्था, 75 उचित मूल्य की दुकानों पर भी किया गया। मुख्यमंत्री के राज्य स्तरीय कार्यक्रम को देखने के लिये जिले भर में करीब 15 हजार रजिस्ट्रेशन किये गये थे। कार्यक्रम में जनप्रतिनिधि सुमित पचौरी एवं प्रगतिशील किसान मौजूद रहे।

Dakhal News

Dakhal News 22 September 2020


gwalior,Hundreds of workers ,joined BJP ,front of former MLA

ग्वालियर।  पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल की मौजूदगी में वार्ड 56, 57 एवं 59 के युवाओं का जनसंवाद मां मनसा देवी मंदिर चन्द्रवदनी नाका पर हुआ। इस मौके पर पूर्व विधायक ने कहा कि जब-जब व्यवस्था परिवर्तन हुआ है उसमें युवा वर्ग की निर्णायक भूमिका रही है।   वर्तमान राजनीति में जनता के मुद्दे गौड़ होते जा रहे हैं, कुछ लोग आटे के कट्टे बांटकर रातों-रात गरीबों के मसीहा बन जाते हैं, जबकि हकीकत यह है कि आम जनता की जिंदगी में बदलाव, क्षेत्र की प्रगति एवं विकास व गरीब सर्वहारा वर्ग का जीवन स्तर ऊपर उठाने से ही संभव है। सोमवार को श्री गोयल ने युवाओं से भाजपा की रीति-नीति के अनुरूप युवाओं से कहा कि समझना होगा कि व्यक्ति से राष्ट्र बड़ा है। हमें देश की एकता और अखण्डता को मजबूत करने के लिए प्रेम शांति एवं भाईचारे एवं सद्भाव के रास्ते पर चलकर देश की एकता और अखण्डता को मजबूत करना होगा। इस मौके पर क्षेत्र के सैकड़ों युवा श्री गोयल के समक्ष भाजपा की सदस्यता ली। इस दौरान धीरेंद्र शर्मा, सुंदर लाल साहू, बालकिशन प्रजापति, केसी शर्मा, राजेश यादव, योगेश शर्मा, अमित शुक्ला, बंचू खान, अतुल पाल, अफरोज खान, दीपक रजक आदि उपस्थित रहे। 

Dakhal News

Dakhal News 21 September 2020


shivpuri, Saroj Jha, becomes District Vice President, Women

शिवपुरी। शिवपुरी महिला कांग्रेस पिछड़ा वर्ग में नई नियुक्तियों की गई हैं। महिला कांग्रेस पिछड़ा वर्ग जिलाध्यक्ष कु. शिवानी राठौर द्वारा सोमवार को अपनी कार्यकारिणी का विस्तार करते हुए सरोज झा को जिला उपाध्यक्ष महिला पिछड़ा वर्ग कांग्रेस नियुक्त किया गया। इसके साथ ही सुनीता राठौर को करैरा ब्लॉक अध्यक्ष महिला पिछड़ा वर्ग कांग्रेस की नियुक्ति दी गई।    इस अवसर पर शिवानी राठौर का क्षेत्र की महिलाओं ने स्वागत किया तथा आश्वासन दिया कि वह कांग्रेस की विचारधारा से सहमत हैं तथा सुनीता राठौर करेरा ब्लॉक अध्यक्ष एवं सरोज झा जिला उपाध्यक्ष के साथ पार्टी के विकास में सहयोग प्रदान करेंगी। इस अवसर पर अनेक महिला कार्यकर्ता उमा झा, विमला सेंन, उषा लोधी, सीमा पाल,अनीता लोधी, कस्तूरी पाल, कृषना लोधी, सरोज कारपेंटर को काग्रेस में सदस्यता दिलाई साथ ही कई काग्रेस महिला कार्यकर्ता उपस्थित रही। उपस्थित महिलाओं को संबोधित करते हुए शिवानी राठौर ने बताया कि हमें लोकतंत्र की रक्षा करने के लिए आगामी विधानसभा उपचुनाव में मध्य प्रदेश की सभी सीटों पर कांग्रेस को विजय दिलाने के लिए मेहनत करनी होगी।

Dakhal News

Dakhal News 21 September 2020


gwalior, Women should, become financially empowered, Imarti Devi

ग्वालियर। महिलाएं सरकारी योजनाओं का लाभ उठाकर खुद आर्थिक रूप से सशक्त बनें और अपनी बेटियों को भी आगे बढऩे के लिए प्रेरित करें। जब महिलाएं आर्थिक गतिविधियों की जिम्मेदारी अपने कंधों पर लेंगी तभी आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश और आत्मनिर्भर भारत का सपना साकार होगा। यह विचार प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने रविवार को गरीब कल्याण पखवाड़ा के तहत स्व सहायता समूहों को आर्थिक सहायता वितरित करने के लिए आयोजित कार्यक्रम में मौजूद महिलाओं को संबोधित करते हुए व्यक्त किये। इस अवसर पर उन्होंने स्व-सहायता समूहों से जुड़ीं महिलाओं को प्रतीक स्वरूप कैश क्रेडिट लिमिट के रूप में आर्थिक सहायता के चैक सौंपे।   जिले के 374 स्व-सहायता समूहों के खातों में कैश क्रेडिट लिमिट के रूप में 3 करोड़ 87 लाख रुपये की राशि विभिन्न बैंकों के माध्यम से पहुंचाई गई। राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत गठित इन समूहों से जिले की 3 हजार 740 ग्रामीण महिलाएं जुड़ी हैं। भोपाल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में आयोजित हुए स्व-सहायता समूहों के राज्यव्यापी कार्यक्रम के साथ ग्वालियर जिले में मुख्य कार्यक्रम डबरा के कम्युनिटी हॉल में मंत्री इमरती देवी के मुख्य आतिथ्य में हुआ। कार्यक्रम में खास तौर पर राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के स्व-सहायता समूहों से जुड़ीं महिलाओं ने सहभागिता की।   महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने कार्यक्रम में मौजूद महिलाओं का आह्वान करते हुए कहा कि बच्चे की पहली गुरु मां होती है। इसलिए महिलाएं अपनी बेटियों को सशक्त बनाएं। बालिकाओं की झिझक दूर कर उन्हें हर क्षेत्र में आगे बढऩे के लिए प्रेरित करें। प्रदेश सरकार भी महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए पूरी शिद्दत के साथ काम कर रही है। सरकार ने महिलाओं का प्रतिनिधित्व बढ़ाने के लिए सरकारी नौकरियों के साथ-साथ पंचायतराज संस्थाओं और नगरीय निकायों में पर्याप्त आरक्षण दिया है।   जिले की दीदियों ने भी सुना मुख्यमंत्री का संबोधन   मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में आयोजित हुए स्व-सहायता समूहों के राज्यव्यापी कार्यक्रम से प्रदेश भर के कार्यक्रमों में मौजूद महिलाओं को वर्चुअल संबोधित किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर एक क्लिक के जरिए 13 हजार स्व-सहायता समूहों से जुड़ी एक लाख 30 हजार से अधिक महिलाओं के खातों में लगभग 200 करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता कैश क्रेडिट लिमिट के रूप में पहुंचाई। डबरा के कार्यक्रम में स्व-सहायता समूहों से जुड़ीं दीदियों (महिलाओं) ने बड़ी एलईडी स्क्रीन से मुख्यमंत्री के कार्यक्रम को देखा और सुना भी। इसके अलावा जिले भर में लोगों ने फेसबुक लिंक के जरिए भी इस कार्यक्रम को देखा। मुख्यमंत्री ने वर्चुअल संवाद कर विभिन्न जिलों में स्व-सहायता समूहों से जुड़ीं महिलाओं की सफलता की दास्तां भी सुनीं और उनका उत्साहवर्धन भी किया।   मंत्री इमरती देवी ने इन समूह की महिलाओं को सौंपे चैक   कार्यक्रम में महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने प्रतीक स्वरूप विश्वहरी समूह समूदन, रानी लक्ष्मीबाई समूह छीमक व रानी लक्ष्मीबाई समूह मसूदपुर को सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की ओर से एक करोड़ 53 लाख रुपये का चैक सौंपा। इसी तरह उन्होंने मध्यप्रदेश ग्रामीण बैंक आंतरी की ओर से स्व-सहायता समूह सिद्ध बाबा भैंसनारी, धूमेश्वर विजयपुर व माँ शीतला समूह बरौल को 95 लाख, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की ओर से रानी लक्ष्मीबाई समूह जौरासी व कल्याणी तथा बैंक ऑफ इंडिया की ओर से रानी लक्ष्मीबाई समूह लिधौरा से जुड़ीं महिलाओं को एक - एक लाख रुपये के चैक कैश क्रेडिट लिमिट के रूप में प्रतीक स्वरूप सौंपे।    हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश / उमेद

Dakhal News

Dakhal News 20 September 2020


guna, Enumerated, achievement government, Scindia, Messiah of development

गुना। बमोरी उपचुनाव को लेकर भाजपा का चुनाव प्रचार जोरों पर है। इसमें भाजपा प्रदेश नेतृत्व और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के निर्देश पर बमोरी में लोकेंद्र सिंह राजपूत भी केबिनेट मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया के पक्ष में प्रचार में जुटे हैं। इसी के चलते वह बमोरी विधानसभा के एक दर्जन से ज्यादा गांव में रविवार को ग्रामीणों के बीच पहुंचे।जहां उन्होंने ग्रामीणों से चर्चा कर उनके हालचाल जाने।वहीं उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की योजनाओं के बारे में जानकारी दी।उन्होंने सांसद सिंधिया को विकास का मसीहा बताते हुए भाजपा के समर्थन में वोट मांगने के साथ ही संजू भैया को जिताने की अपील की।   किरार धाकड़ महासभा से जुड़े लोकेन्द्र सिंह राजपूत को बमोरी उपचुनाव में प्रभारी की जिम्मेदारी सौंपी गई है।वह बमोरी में लगातार जनसम्पर्क कर लोगों से मिलकर सरकार की योजनाओं की जानकारी दे रहे हैं।उन्होंने शिवराज सरकार की किसान हितेषी योजनाओं के साथ शिवराज और महाराज की जोड़ी को बमोरी के विकास की उड़ान भरने बाली जोड़ी करार दिया। उन्होंने कहा कि महाराज सिंधिया ने किसानों और आमजन की लड़ाई लड़ी।इसके लिए उन्होंने किसानों का विरोध करने बाले उनसे वादाखिलाफी करने बाले पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ से भी नाता तोड़ लिया।उन्होंने शिवराज को किसानों और आमजन की समस्या को दूर करने बाला मुख्यमंत्री बताया।    ग्रामीणों से कहा आपका वोट कराएगा बमोरी का विकास बमोरी से भाजपा के प्रभारी लोकेंद्र सिंह राजपूत ने रविवार को एक दर्जन से ज्यादा गांव का दौरा किया।जिनमें बरोदिया खुर्द,धाननखेड़ी, सुजाखेड़ी,बनेह,भौरा,झागर, बेरखेड़ी, कोन्तर आदि गांव शामिल हैं।इन गांव में पहुंचे राजपूत ने चौपाल लगाकर जनचर्चा की।इस दौरान ग्रामीणों ने उन्हें अपनी समस्याओं से अवगत कराया।जिसे उन्होंने जल्द ही दूर किये जाने का आश्वासन दिया।राजपूत ने कहा कि आप सभी को अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए मतदान करना है। 

Dakhal News

Dakhal News 20 September 2020


bhopal, Computer Baba, big announcement, campaign against BJP

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना के कहर के बीच इन दिनों चुनावी संग्राम भी छिड़ा हुआ है। कांग्रेस और भाजपा दोनों ही पार्टियां उपचुनाव की जमकर तैयारी कर रहीं हैं। वहीं मध्य प्रदेश की राजनीति में दखल रखने वाले पूर्व कैबिनेट मंत्री का दर्जा प्राप्त कम्प्यूटर बाबा भी उपचुनाव के सियासी मैदान में उतर गए हैं। एक बार फिर कम्प्यूटर बाबा ने भाजपा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।   कंप्यूटर बाबा ने विधानसभा उपचुनाव से पहले बड़ा ऐलान किया है। कंप्यूटर बाबा ने कहा कि वे संत समाज लोकतंत्र को बचाने के लिए मैदान में उतरेंगे। 22 सितंबर को मंदौर में भाजपा के खिलाफ प्रचार प्रसार करेंगे। बता दें कि भिंड में कंप्यूटर बाबा का प्रचार प्रसार खत्म होगा। वहीं सरकार के खिलाफ हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा ने लोकतंत्र की हत्या करके सरकार बनाई है। बड़े पैमाने में प्रदेश में रेत उत्खनन का काम चल रहा है। गौरतलब है कि इससे पहले जुलाई में भी कम्प्यूटर बाबा भाजपा के खिलाफ लोकतंत्र बचाओ यात्रा निकाल चुके हैं। जिसमें वे उन सभी विधानसभा सीटों पर पहुंचे थे, जहां चुनाव होना है। वहीं अब जब चुनाव नजदीक आ गए है तो एक बार फिर वे भाजपा के खिलाफ प्रचार की तैयारी में जुट गए है।  

Dakhal News

Dakhal News 20 September 2020


ujjain, Chief Minister, inaugurated ,newly constructed ICU

उज्जैन। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को उज्जैन प्रवास के दौरान शासकीय सिविल अस्पताल माधव नगर में नवनिर्मित कोविड-19 आईसीयू यूनिट का लोकार्पण किया। इसके बाद मुख्यमंत्री ने यूनिट का अवलोकन किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि नवनिर्मित आईसीयू यूनिट से कोविड मरीजों के उपचार में काफी सहुलियत मिलेगी। आमजन को भी इससे काफी सुविधा होगी। मुख्यमंत्री ने इस दौरान मौजूद समस्त डॉक्टर्स की टीम को कोरोना संक्रमण के दौरान निरन्तर ड्यूटी करते हुए आमजन की सेवा करने पर बधाई दी। उन्होंने कहा कि हमारे डॉक्टर्स बहुत अच्छा काम कर रहे हैं। आगे भी इसी जज्बे के साथ वे काम करते रहें। निश्चित रूप से हम इस महामारी को हराने में सफल अवश्य होंगे।   मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. महावीर खंडेलवाल ने मुख्यमंत्री को जानकारी दी कि कोरोना संक्रमण के निरन्तर बढ़ते हुए प्रकरणों को ध्यान में रखते हुए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन द्वारा मात्र 45 दिनों में दिन-रात चौबीस घंटे कड़ी मेहनत से माधव नगर अस्पताल में आईसीयू युनिट का निर्माण किया गया है, ताकि कोविड-19 के मरीजों को सहुलियत हो सके। जानकारी दी गई कि यह वार्ड 155.78 लाख रुपये की लागत से निर्मित किया गया है। इस वार्ड में 20 बेड और 10 वेंटिलेटर लगाये गये हैं। साथ ही यह वार्ड अत्याधुनिक मशीनों से लैस है। इसमें ऑक्सीजन और एयर वाल्व हैं। यहां की फ्लोरिंग शॉकप्रूफ की गई है तथा इस वार्ड में एक निगेटिव प्रेशर वाल्व भी सीलिंग में लगाया गया है, जिस वजह से कोरोना एवं अन्य वायरस तुरन्त वाल्व द्वारा सोख लिये जाकर एक कंटेनर में संग्रहित होते रहते हैं, जिस वजह से आईसीयू वार्ड के बाहर संक्रमण का खतरा काफी हद तक कम हो गया है।   उन्होंने बताया कि इस वार्ड में चौबीस घंटे डॉक्टर्स और ट्रेनिंग डॉक्टर्स ड्यूटी पर तैनात रहेंगे। कोविड-19 के गंभीर मरीजों को अब नवनिर्मित आईसीयू के कारण उपचार माधव नगर अस्पताल में ही दिया जा सकेगा तथा उन्हें अन्यत्र कहीं रैफर करने की नौबत नहीं आयेगी। कोरोना अवधि के बाद आने वाले समय में माधव नगर अस्पताल को एक बढिय़ा रेस्पिरेटरी सेन्टर के रूप में विकसित किये जाने की भी योजना है।   इस दौरान जानकारी दी गई कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन द्वारा पूरे प्रदेश में ऐसे 50 आईसीयू युनिट बनाये जा रहे हैं, ताकि कोविड-19 से संक्रमित लोगों का बेहतर उपचार हो सके।

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2020


raisen, Farmers breadwinners, government always stands ,Health Minister Chaudhary

रायसेन। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने फसल बीमा भुगतान कार्यक्रम में शुक्रवार को प्रदेश के 22 लाख से अधिक किसानों के खातों में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना खरीफ 2019 के अंतर्गत फसल बीमा दावे की कुल राशि 4 हजार 688 करोड़ 83 लाख रु का ई-अंतरण के माध्यम से भुगतान किया। रायसेन में कलेक्ट्रेट में स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर प्रभुराम चौधरी ने कार्यक्रम का सीधा प्रसारण देखा। उन्होंने लाभान्वित किसानों को प्रपत्र भी वितरित किए।   इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री चौहान के नेतृत्व में प्रदेश सरकार किसानों के कल्याण और विकास के लिए सदैव तत्पर है। आज मुख्यमंत्री ने रायसेन जिले के 84 हजार किसानों के खाते में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना खरीफ 2019 के अंतर्गत फसल बीमा दावे के 70 करोड़ रुपये से अधिक राशि का ऑनलाईन भुगतान किया है। उन्होंने कहा कि किसान हमारे अन्नदाता हैं और सरकार किसानों के हर दुख-सुख में साथ खड़ी है।   स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार का लक्ष्य है किसानों की आमदनी को जल्दी से जल्दी दोगुना करना। इसके लिए न केवल किसानों को खेती-किसानी के लिए हरसंभव सहायता दी जा रही है, अपितु उनकी फसलों को हुए नुकसान की भी अधिकतम भरपाई सरकार कर रही है। किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर फसल ऋण दिया जा रहा है। किसानों को उनकी फसल का अधिक से अधिक मूल्य मिल सके, इसके लिए मण्डी अधिनियम में संशोधन किए गए हैं तथा उनकी फसलों के विपणन की भी अच्छी व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा खरीफ 2018 एवं रबी 2018-19 की फसल बीमा के प्रीमियम की बकाया राशि 22 सौ करोड़ भरे जाकर किसानों को 2981.24 करोड़ रुपये की बीमा दावा राशि दिलवाई गई है। इस अवसर पर कलेक्टर उमाशंकर भार्गव, जिला भाजपा अध्यक्ष डॉ जयप्रकाश किरार, जिला पंचायत सीईओ पीसी शर्मा, कृषि उप संचालक एनपी सुमन सहित अन्य अधिकारी एवं लाभान्वित किसान उपस्थित थे।   स्वास्थ्य मंत्री ने किसानों को वितरित किए प्रपत्र   स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी ने ग्राम चांदनगोड़ा के किसान लखन सिंह जाट, ग्राम कोटरा निवासी नरेश कुमार, गुंडरई निवासी दर्शन सिंह, सनखेड़ी निवासी किसान धन सिंह तथा मेहगांव निवासी किसान धीरेन्द्र सिंह बघेल तथा जीवन सिंह बघेल को प्रपत्र प्रदान किए। इन किसानों ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को धन्यवाद देते हुए कहा कि फसल बीमा की दावा राशि मिलने से उन्हें बहुत राहत मिली हैं।

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2020


bhopal, Kamal Nath ,insulted mandate ,salable state, Vishnudutta Sharma

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के उस बयान पर गंभीर आपत्ति व्यक्त की है जिसमें उन्होंने प्रदेश को बिकाऊ प्रदेश कहा है। उन्होंने कहा है कि यह जनादेश का अपमान है और इसे सहन नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि जनता के साथ कांग्रेस की 15 महीने की सरकार ने लगातार गद्दारी की है। इसलिए ग्वालियर चंबल की जनता अपनी खुद्दारी के दम पर कमलनाथ एंड कंपनी को करारा जवाब देगी। शर्मा ने यह बात शुक्रवार को मीडिया से चर्चा के दौरान कही।कमलनाथ सरकार के रवैये से नाराज थे विधायक, इसलिए दिया इस्तीफाशर्मा ने कहा कि कांग्रेस ने जिस वचनपत्र के आधार पर चुनाव लड़ा था, कमलनाथ सरकार उस पर अमल नहीं कर रही थी और प्रदेश के किसानों, नौजवानों, गरीब जनता से छल कर रही थी। सिंधिया जी और उनके साथी विधायकों ने जब मुख्यमंत्री से वचनपत्र पर अमल करने और वादे निभाने की बात कही, तो तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ ने उनकी बात नहीं सुनी और सड़क पर उतरने की चुनौती दे दी। इन विधायकों ने प्रदेश की जनता को धोखाधड़ी और छल से बचाने के लिए इस्तीफा दिया। शर्मा ने कहा कि कांग्रेस सरकार में मंत्री रहे गोविन्द सिंह ने कहा था कि सरकार भ्रष्टाचार में आकंठ डूबी है और पैसा उपर तक जाता है। मंत्री उमंग सिंगार ने कहा था कि कैबिनेट निर्णय नहीं करती, निर्णय तो दिग्विजय सिंह पर्दे के पीछे से कराते हैं। इससे स्पष्ट है कि कांग्रेस के अपने ही लोगों में सरकार के रवैये के प्रति असंतोष था और इसी वजह से वह सरकार गिरी है।सफेद झूठ मत बोलो कमलनाथ, जनता सब जानती हैशर्मा ने कहा कि कांग्रेस की झूठमंडली ने प्रदेश में झूठ बोलकर सरकार बनाई थी। कमलनाथ, दिग्विजय सिंह के इशारे पर ही झूठ बोलते हैं। उन्होंने आज ग्वालियर में फिर एक सफेद झूठ बोला कि किसानों के फसल बीमा की 2200 करोड़ रूपए की प्रीमियम हमने जमा कराई थी।  शर्मा ने कहा कि इतना सफेद झूठ मत बोलो कमलनाथ जी, जनता मूर्ख नहीं है, वो सब जानती है। उन्होंने कहा कि ग्वालियर की जनता ने आज जो नारेबाजी की है, उससे आपको आइना दिखा दिया है। आपने जनता से चोरी करके जो वोट पाया, उसी के चलते ग्वालियर की जनता आज कमलनाथ चोर है के नारे लगा रही है। आपको ग्वालियर आने का कोई हक ही नहीं है। जब आप मुख्यमंत्री रहे, कभी ग्वालियर की जनता की सुध नहीं ली। ग्वालियर के विकास में एक रुपया कभी नहीं लगाया। चंबल एक्सप्रेस वे को ब्रेक कर दिया गया था। जेएएच हॉस्पिटल के काम को रोक दिया। सौभाग्य से सिंधियाजी ने कदम उठाया और भाजपा की सरकार बन गई। जिसके बाद चंबल प्रोगेस वे का काम आगे बढ़ा। शर्मा ने कहा कि जिस तरह पिछले 15 वर्षों में  शिवराजसिंह चौहान ने चंबल को डकैतों से मुक्त कराकर विकास किया था, उसी तरह अब फिर से ग्वालियर में विकास के कार्य प्रारंभ कर दिए गए हैं।कमलनाथ सरकार ने नहीं भरी प्रीमियम, भाजपा सरकार ने दिलाया पैसाशर्मा ने कहा कि आज भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने प्रदेश के किसानों को बड़ी सौगात दी है। 22 लाख 51 हजार किसानों को मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने उज्जैन से 4688 करोड़ रूपए की फसल बीमा राशि सिंगल क्लिक के माध्यम से किसानों के खातों में डाली है। यह ऐतिहासिक कदम है। इसके लिए मैं लाखों किसानों को बधाई और शुभकामनाएं देता हूं। शर्मा ने कहा कि सोयाबीन की भावांतर की राशि 470 करोड़ रूपए भी कमलनाथ सरकार ने नहीं दी। आज मुख्यमंत्री ने घोषणा की है कि वे उस राशि को भी किसानों के खातों में डालेंगे। शर्मा ने कहा कि वर्ष 2018-19 की खरीफ की फसल की प्रीमियम के बकाया 2200 करोड़ रूपए कांग्रेस सरकार ने नहीं भरे थे, जिसे शिवराज जी की सरकार ने जमा किया। इसके फलस्वरूप 2981 करोड़ रूपए की बीमा राशि किसानों को मिल चुकी है।देश के गद्दार और लोकतंत्र की हत्या के आरोपी हैं कमलनाथ शर्मा ने कहा कि कमलनाथ जब केंद्र में कॉमर्स मिनिस्टर थे, तब उन्होंने चीन के साथ मिलकर खेल खेला था और उससे गांधी परिवार को लाभान्वित किया। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष  जेपी नड्डा जी ने कमलनाथ से पूछा था कि आप चीन के दलाल हैं, देश के गद्दार हैं, आपको इसका जवाब देना होगा। शर्मा ने कहा कि इंदिरा जी ने देश में आपातकाल लगाकर लोकतंत्र की हत्या की थी। कमलनाथ भी लोकतंत्र की हत्या करने वाली उस मंडली के एक प्रमुख सदस्य रहे हैं।

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2020


bhopal, Kamal Nath ,insulted mandate ,salable state, Vishnudutta Sharma

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के उस बयान पर गंभीर आपत्ति व्यक्त की है जिसमें उन्होंने प्रदेश को बिकाऊ प्रदेश कहा है। उन्होंने कहा है कि यह जनादेश का अपमान है और इसे सहन नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि जनता के साथ कांग्रेस की 15 महीने की सरकार ने लगातार गद्दारी की है। इसलिए ग्वालियर चंबल की जनता अपनी खुद्दारी के दम पर कमलनाथ एंड कंपनी को करारा जवाब देगी। शर्मा ने यह बात शुक्रवार को मीडिया से चर्चा के दौरान कही।कमलनाथ सरकार के रवैये से नाराज थे विधायक, इसलिए दिया इस्तीफाशर्मा ने कहा कि कांग्रेस ने जिस वचनपत्र के आधार पर चुनाव लड़ा था, कमलनाथ सरकार उस पर अमल नहीं कर रही थी और प्रदेश के किसानों, नौजवानों, गरीब जनता से छल कर रही थी। सिंधिया जी और उनके साथी विधायकों ने जब मुख्यमंत्री से वचनपत्र पर अमल करने और वादे निभाने की बात कही, तो तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ ने उनकी बात नहीं सुनी और सड़क पर उतरने की चुनौती दे दी। इन विधायकों ने प्रदेश की जनता को धोखाधड़ी और छल से बचाने के लिए इस्तीफा दिया। शर्मा ने कहा कि कांग्रेस सरकार में मंत्री रहे गोविन्द सिंह ने कहा था कि सरकार भ्रष्टाचार में आकंठ डूबी है और पैसा उपर तक जाता है। मंत्री उमंग सिंगार ने कहा था कि कैबिनेट निर्णय नहीं करती, निर्णय तो दिग्विजय सिंह पर्दे के पीछे से कराते हैं। इससे स्पष्ट है कि कांग्रेस के अपने ही लोगों में सरकार के रवैये के प्रति असंतोष था और इसी वजह से वह सरकार गिरी है।सफेद झूठ मत बोलो कमलनाथ, जनता सब जानती हैशर्मा ने कहा कि कांग्रेस की झूठमंडली ने प्रदेश में झूठ बोलकर सरकार बनाई थी। कमलनाथ, दिग्विजय सिंह के इशारे पर ही झूठ बोलते हैं। उन्होंने आज ग्वालियर में फिर एक सफेद झूठ बोला कि किसानों के फसल बीमा की 2200 करोड़ रूपए की प्रीमियम हमने जमा कराई थी।  शर्मा ने कहा कि इतना सफेद झूठ मत बोलो कमलनाथ जी, जनता मूर्ख नहीं है, वो सब जानती है। उन्होंने कहा कि ग्वालियर की जनता ने आज जो नारेबाजी की है, उससे आपको आइना दिखा दिया है। आपने जनता से चोरी करके जो वोट पाया, उसी के चलते ग्वालियर की जनता आज कमलनाथ चोर है के नारे लगा रही है। आपको ग्वालियर आने का कोई हक ही नहीं है। जब आप मुख्यमंत्री रहे, कभी ग्वालियर की जनता की सुध नहीं ली। ग्वालियर के विकास में एक रुपया कभी नहीं लगाया। चंबल एक्सप्रेस वे को ब्रेक कर दिया गया था। जेएएच हॉस्पिटल के काम को रोक दिया। सौभाग्य से सिंधियाजी ने कदम उठाया और भाजपा की सरकार बन गई। जिसके बाद चंबल प्रोगेस वे का काम आगे बढ़ा। शर्मा ने कहा कि जिस तरह पिछले 15 वर्षों में  शिवराजसिंह चौहान ने चंबल को डकैतों से मुक्त कराकर विकास किया था, उसी तरह अब फिर से ग्वालियर में विकास के कार्य प्रारंभ कर दिए गए हैं।कमलनाथ सरकार ने नहीं भरी प्रीमियम, भाजपा सरकार ने दिलाया पैसाशर्मा ने कहा कि आज भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने प्रदेश के किसानों को बड़ी सौगात दी है। 22 लाख 51 हजार किसानों को मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने उज्जैन से 4688 करोड़ रूपए की फसल बीमा राशि सिंगल क्लिक के माध्यम से किसानों के खातों में डाली है। यह ऐतिहासिक कदम है। इसके लिए मैं लाखों किसानों को बधाई और शुभकामनाएं देता हूं। शर्मा ने कहा कि सोयाबीन की भावांतर की राशि 470 करोड़ रूपए भी कमलनाथ सरकार ने नहीं दी। आज मुख्यमंत्री ने घोषणा की है कि वे उस राशि को भी किसानों के खातों में डालेंगे। शर्मा ने कहा कि वर्ष 2018-19 की खरीफ की फसल की प्रीमियम के बकाया 2200 करोड़ रूपए कांग्रेस सरकार ने नहीं भरे थे, जिसे शिवराज जी की सरकार ने जमा किया। इसके फलस्वरूप 2981 करोड़ रूपए की बीमा राशि किसानों को मिल चुकी है।देश के गद्दार और लोकतंत्र की हत्या के आरोपी हैं कमलनाथ शर्मा ने कहा कि कमलनाथ जब केंद्र में कॉमर्स मिनिस्टर थे, तब उन्होंने चीन के साथ मिलकर खेल खेला था और उससे गांधी परिवार को लाभान्वित किया। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष  जेपी नड्डा जी ने कमलनाथ से पूछा था कि आप चीन के दलाल हैं, देश के गद्दार हैं, आपको इसका जवाब देना होगा। शर्मा ने कहा कि इंदिरा जी ने देश में आपातकाल लगाकर लोकतंत्र की हत्या की थी। कमलनाथ भी लोकतंत्र की हत्या करने वाली उस मंडली के एक प्रमुख सदस्य रहे हैं।

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2020


bhopal, Senior BJP leader , former minister ,Ramakant Tiwari ,passed away

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मंत्री और भाजपा के चार बार विधायक रह चुके रमाकांत तिवारी (80 वर्ष) का गुरुवार की शाम निधन हो गया। वे लंबे समय से बीमार थे और रीवा जिले के चाकघाट स्थित अपने निजी आवास पर आखिरी सांस ली। उनके घर मेंं दो बेटे और तीन बेटियां हैं। उनके निधन की खबर मिलते ही उनके क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई। मुख्यमंत्री ने उनके निधन पर दुख व्यक्त किया है।   बता दें कि त्योंथर के पूर्व भाजपा विधायक रमाकांत तिवारी चार बार विधायक बने और मंत्री का पद भी संभाल चुके हैं। साल 2003 में उमा भारती की सरकार में उन्हें पशुपालन मंत्री का पद दिया गया था। साल 2013 में तिवारी आखिरी बार त्योंथर विधानसभा सीट से विधायक बने थे। यह चौथा मौका था जब रमाकांत विधायक बने थे। तब रमाकांत तिवारी ने ब्राह्माण बहुल सीट पर कांग्रेस के रमाशंकर सिंह को हराया था।   पूर्व मंत्री के निधन पर प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि, परिवार के वरिष्ठ सदस्य, पूर्व मंत्री श्री रमाकांत तिवारी जी के निधन के समाचार को सुनकर अत्यंत दु:ख हुआ। ईश्वर से दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान और परिजनों को यह वज्रपात सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं।

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2020


bhopal,Biwara assembly constituency, declared vacant, with 27 seats

भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा द्वारा 161-ब्यावरा विधानसभा क्षेत्र को रिक्त घोषित कर दिया गया है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय द्वारा ब्यावरा विधानसभा के रिक्त होने की सूचना भारत निर्वाचन आयोग को दे दी गई है। प्रदेश के 27 विधानसभा क्षेत्रों के होने वाले उप निर्वाचन में ब्यावरा विधानसभा क्षेत्र को भी सम्मिलित किया जाएगा।उप मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी मध्यप्रदेश प्रमोद कुमार शुक्ला ने गुरुवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि राजगढ़ जिले की ब्यावरा विधानसभा में चुनाव करवाए जाने के लिए 3 जिलों बैतूल, रायसेन एवं विदिशा से ईवीएम मशीनें भेजी जा रही हैं। बैतूल से 500 कंट्रोल यूनिट, रायसेन से 268 कंट्रोल यूनिट एवं विदिशा से 900 बैलेट यूनिट भेजी जाएंगी। इस संबंध में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी राजगढ़, बैतूल रायसेन एवं विदिशा को मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय से पत्र लिखकर निर्देश जारी कर दिए गए हैं। ईवीएम मशीनें हस्तांतरित करने एवं उन्हें प्राप्त करने के दौरान मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय द्वारा उक्त जिलों के कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारियों को आयोग के निर्देशों तथा कोविड-19 के दिशा-निर्देशों का पालन सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है। इन मशीनों की बेंगलुरु के इंजीनियरों द्वारा जिला मुख्यालय राजगढ़ में एफएलसी (फर्स्ट लेवल चेकिंग) की जाएगी तथा इसके पश्चात उप निर्वाचन में मशीनें उपयोग की जायेंगी। एफएलसी के लिए आने वाले इंजीनियरों का सर्वप्रथम कोरोना टेस्ट होगा। एफएलसी का कार्य राजनीतिक दलों की उपस्थिति में किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि ब्यावरा विधानसभा में 285 मतदान केंद्र हैं। इसके अलावा आवश्यकतानुसार सहायक मतदान केन्द्र भी बनाए जायेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 17 September 2020


bhopal, I am overwhelmed, meet the girls ,Ladli Lakshmi Yojana, Shivraj

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 70वें जन्मदिवस के अवसर पर गुरुवार को राजधानी भोपाल में राज्यव्यापी पोषण महोत्सव का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने बालिकाओं से वार्तालाप किया और दुग्ध वितरण कार्यक्रम में शामिल हुए। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस कार्यक्रम में लाड़ली लक्ष्मी योजना लाभान्वित बालिकाओं से हुई उनकी भेंट सुखदायी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि करीब पंद्रह वर्ष पूर्व लाड़ली लक्ष्मी योजना प्रारंभ की गई थी। वे बालिकाएं जो योजना का लाभ लेकर अब शिक्षा हासिल करते हुए बड़ी कक्षाओं की तरफ बढ़ रही हैं, उनसे मिलना और बातचीत करना जीवन का एक सुखद और यादगार अनुभव है। आज इन लाड़लियों से भेंट कर अभिभूत हूँ।    मुख्यमंत्री ने अक्षिता, अनुष्का, तेजल, सूर्या, वर्तिका और अन्य बालिकाओं को योजना अंतर्गत प्रमाण-पत्र प्रदान किए। उन्होंने बालिकाओं से पढ़ाई-लिखाई और केरियर निर्माण के बारे में भी बातचीत की। यह कार्यक्रम स्वामी दयानंद नगर के अंकुर विद्यालय परिसर में सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम में महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी भी उपस्थित थीं। इस अवसर पर मुख्यमंत्री और मंत्री इमरती देवी ने अपने हाथों से बच्चों को सुगंधित और पौष्टिक दूध पिलाया।   मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2005 में मुख्यमंत्री बनने के बाद समाज में बालिकाओं और महिलाओं की स्थिति को देख उनके मन में लाड़ली लक्ष्मी योजना प्रारंभ करने का विचार मन में आया था। आज यह योजना फलीभूत हुई है। परिवार में कन्या के जन्म की खुशियां मनाई जाती हैं। बालिकाओं को बेहतर लालन-पालन और पढ़ाई-लिखाई के लिये सहायता मिलने से उनका मलोबल बढ़ा है। बालिकाएं सशक्त हो रही हैं। इससे बढक़र प्रसन्नता क्या होगी।   आंगनवाड़ी केन्द्रों को स्वैच्छिक सहयोग मिले   मुख्यमंत्री ने कहा कि राजधानी भोपाल से लेकर प्रदेश के गांव-गांव तक आंगनवाड़ी केन्द्र संचालित हैं। ये केन्द्र छोटे बच्चों को स्कूल पूर्व शिक्षा, पोषण आहार देने के साथ उनका उत्साह भी बढ़ाते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के आंगनवाड़ी केन्द्रों को सक्षम बनाने के लिये उनके अपने भवन बनाने, बच्चों की उपस्थिति बढ़ाने और बेहतर पोषण आहार उपलब्ध करवाने के प्रयास निरंतर किये जा रहे हैं। आंगनवाड़ी केन्द्रों में एक मटका अथवा पात्र रखकर स्वैच्छिक सहयोग भी आमंत्रित किया जा रहा है। इस सामाजिक जिम्मेदारी के अंतर्गत आमजन, शासकीय और अशासकीय संगठन आर्थिक सहायता से लेकर खिलौने, पोषण आहार भी दे सकते हैं। पारिवारिक मांगलिक प्रसंग जैसे जन्मदिन, विवाह, वर्षगांठ के अवसर पर नागरिकगण आंगनवाड़ी बच्चों को लाभान्वित कर खुशियां मना सकते हैं।   बच्चों के चेहरों पर मुस्कान देख मुस्कुराए सभी   मुख्यमंत्री ने वार्ड-31 स्थित आंगनवाड़ी केन्द्र क्रमांक 729 जिला भोपाल में पहुँचकर जब बच्चों को सुगंधित दूध का वितरण किया, बच्चों के चेहरे पर मुस्कान आ गई। बच्चों की प्रसन्नता और स्वाभाविक मुस्कान देखकर सभी उपस्थित अतिथि मुस्कुरा उठे। अंकुर विद्यालय के कार्यक्रम में मंत्री इमरती देवी सहित प्रमुख सचिव महिला एवं बाल विकास  अशोक शाह, संचालक महिला एवं बाल विकास स्वाति मीणा, कलेक्टर अविनाश लवानिया, स्थानीय नागरिक एवं जनप्रतिनिधि भी उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 17 September 2020


Bhopal, Congress celebrates,PM Modi

भोपाल। मध्यप्रदेश में युवक कांग्रेस के आह्वान पर पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जन्मदिन बेरोजगारी दिवस के रूप में मनाया। इस दौरान प्रदेशभर में युवा कार्यकर्ताओं द्वारा केन्द्र सरकार के खिलाफ पकौड़े तलकर विरोध-प्रदर्शन किया। राजधानी भोपाल में पीसीसी कार्यालयके सामने बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता इस प्रदर्शन में शामिल हुए।   दरअसल, युवक कांग्रेस नेता और कालापीपल विधायक कुणाल चौधरी द्वारा पीएम मोदी का जन्मदिन बेरोजगारी दिवस के रूप में मनाने का आह्वान किया गया था। इसी के चलते राजधानी भोपाल में गुरुवार सुबह पार्टी के कार्यकर्ता पीसीसी कार्यालय पहुंचे और विधायक कुणाल चौधरी के नेतृत्व में सांकेतिक रूप में कढ़ाई में पकौड़े तलकर प्रदर्शन किया। इसी दौरान पीसीसी के पास ही पूर्व मंत्री रामपाल सिंह के बंगले के पास बाइक सवार घायल होकर गिर गया। उसे मिर्गी का दौरा पड़ा था। युवक को घायल देख विधायक कुणाल चौधरी समेत अन्य कार्यकर्ता मदद के लिए भागे और युवक को अस्पताल पहुंचाया। घायल के सिर पर गंभीर चोट आना बताई जाती। ऐसे में वह कुछ बता भी नहीं सका। ऐसे में उसकी पहचान नहीं हो सकी है।

Dakhal News

Dakhal News 17 September 2020


bhopal, Chief Minister, reviewed , situation and arrangements, Corona

फीवर क्लीनिक्स को और प्रभावी और होम आइसोलेशन को "परफैक्ट" बनाने के निर्देश   भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को मंत्रालय में वीसी के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा की। इस अवसर पर उन्होंने निर्देश देते हुए कहा है कि प्रदेश के सभी जिलों में फीवर क्लीनिक्स को और प्रभावी बनाया जाए। ये प्रतिदिन नियमित रूप से संचालित रहें और आरटीपीसीआर टेस्ट के लिए सैम्पल लिए जाएं तथा रैपिड एंजीटन टेस्ट किए जाएं। मोबाइल फीवर क्लीनिक्स भी चलाए जाएं। हर जिले में ऑक्सीजन बैड्स और आईसीयू बैड्स की क्षमता बढ़ाई जाए।   मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन कोरोना मरीजों को लक्षण नहीं है तथा जिनके घर में आइसोलेशन की व्यवस्था है वे 'होम आइसोलेशन' में रह सकते हैं। हर जिले में होम आइसोलेशन व्यवस्था को परफैक्ट बनाया जाए। होम आइसोलेशन के मरीजों की प्रतिदिन मॉनीटरिंग की अच्छी व्यवस्था हो। प्रदेश में वर्तमान में 32 प्रतिशत कोरोना मरीज होम आइसोलेशन में रह रहे हैं। समीक्षा बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान उपस्थित थे।   कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेंटर से 'होम आइसोलेशन' की मॉनीटरिंग   भोपाल जिले की समीक्षा में कलेक्टर ने बताया कि 'कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेंटर' के माध्यम से 'होम आइसोलेशन' वाले मरीजों की निरंतर मॉनीटरिंग की जा रही है। मुख्यमंत्री ने सभी जिले में इस प्रकार की व्यवस्था लागू करने के निर्देश दिए।   बैड्स की क्षमताएं बढ़ाएं   मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि हर जिले के अस्पतालों में कोरोना मरीजों के लिए बैड्स की क्षमता बढ़ाई जाए। भोपाल जिले की समीक्षा में बताया गया कि यहां वर्तमान में 1488 ऑक्सीजन एवं आईसीयू बैड्स हैं, जिन्हें बढ़ाकर 2201 किया जा रहा है।   प्रतिदिन 25 हजार टेस्ट   मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि हर जिले में कोरोना की टेस्टिंग बढ़ाई जाए। मुख्य सचिव ने बताया कि प्रतिदिन 25 हजार टेस्ट करने का लक्ष्य रखा गया है। कोरोना मरीजों की जल्दी पहचान कर उनका तुरंत उपचार किए जाकर शत-प्रतिशत मरीजों को स्वस्थ किया जा सकता है।   प्रदेश की मृत्यु दर अब 1.93 प्रतिशत   मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश में कोरोना के बड़ी संख्या में मरीज ठीक होकर घर जा रहे हैं। प्रदेश की रिकवरी दर 74.9 प्रतिशत है तथा मृत्यु दर 1.93 प्रतिशत है। वहीं प्रति दस लाख हमारी टेस्टिंग 21 हजार 117 तथा पॉजिटिविटी रेट 5.50 प्रतिशत है।   सक्रिय मरीजों में 13वें और पॉजीटिव मरीजों में 14वें स्थान पर   अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य ने बताया कि तुलनात्मक रूप से देश में सक्रिय मरीजों की संख्या के मान से मध्यप्रदेश 13वें तथा पॉजीटिव मरीजों की संख्या के मान से 14वें स्थान पर है। प्रदेश में 15 सितम्बर की स्थिति में सक्रिय मरीजों की संख्या 21 हजार 620 और 16 सितम्बर को एक्टिव मरीजों की संख्या 22136 है।   इंदौर में सर्वाधिक 393 नए प्रकरण   जिलेवार समीक्षा में पाया गया कि इंदौर जिले में सर्वाधिक 393 नए कोरोना पॉजीटिव मिले हैं। इसके पश्चात भोपाल में 256, ग्वालियर में 226, जबलपुर में 124, नरसिंहपुर में 85, खरगौन में 82, शहडोल में 71, धार में 70, कटनी में 63 तथा उज्जैन में 59 नए प्रकरण हैं। मुख्यमंत्री ने इन जिलों पर विशेष ध्यान दिए जाने के निर्देश दिए।  

Dakhal News

Dakhal News 16 September 2020


indore, Ex-minister ,severely accuses, government, Indore administration, servant of BJP

इंदौर। मध्यप्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष और मीडिया विभाग के चेयरमैन जीतू पटवारी ने बुधवार को स्थानीय रेसीडेंसी कोठी के बाहर एक पत्रकार-वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना ने समूचे मध्यप्रदेश में भयानक रूप अख्तियार कर लिया है, जिससे इंदौर सर्वाधिक प्रभावित हुआ है। उन्होंने कहा कि यह उल्लेखनीय है कि जिस परिवार का सदस्य कोरोना संक्रमित हो रहा है उसकी पीड़ा को केवल वही परिवार समझ सकता है। अकेले इंदौर में ही कोरोना के कारण अब तक 473 मौतें हो चुकी हैं और यह आधिकारिक आंकड़ा है जो प्रशासन के द्वारा दिया गया है लेकिन वास्तविकता में इससे तीन गुना अधिक मौतें हुई हैं।   इस दौरान पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि इंदौर शहर का प्रशासन कोरोना से हो रही मौतों और संक्रमित लोगों की संख्या को सरकार के इशारे पर छुपा रहा है। मुख्यमंत्री के निर्देश हैं कि कोरोना के असली आंकड़ों को छुपाया जाए, जांच की केवल बातें की जाएं, भाषण दिए जाएं, लेकिन वास्तविकता में जांच न की जाए, प्रशासन वैसा ही कर रहा है। पटवारी कहा कि यह चिंतनीय है कि लगभग 400 पॉजिटिव केस इंदौर में रोज आ रहे हैं, इस हिसाब से कांग्रेस पार्टी का अनुमान है की दीवाली तक लगभग 50000 केस हो सकते हैं। केंद्र और राज्य सरकार कोरोना के इलाज के नाम पर डेढ़ लाख रुपए तक, प्रति मरीज, उन चिन्हित अस्पतालों को दे रहे हैं, जिनसे सरकार का एग्रीमेंट है।   जीतू पटवारी ने निजी अस्पतालों पर कोरोना के नाम पर लूट का आरोप लगाते हुए कहा कि निजी अस्पताल जनता को सीधे लूट रहे हैं। सांवेर के प्रत्याशी और पूर्व सांसद प्रेमचंद गुड्डू जो कोरोना से लड़ाई लड़ चुके हैं, वह स्वयं और मेरे चाचा भी निजी अस्पतालों की इस लूट का शिकार हो चुके हैं, आम आदमी के हालात का तो आप केवल अंदाजा ही लगा सकते हैं। प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए सवाल पूछा है कि सरकार ने निजी अस्पतालों को लूट की छूट दे रखी है। निजी अस्पताल 5 लाख या उससे अधिक में इलाज कर रहे हैं और सरकार ने डेढ़ लाख रुपए प्रति मरीज निर्धारित किए हैं, ऐसा क्यों? बिलों में अंतर का अनुपात इतना अधिक क्यों है? पूरी प्रक्रिया पर जिला प्रशासन ने आंख क्यों मूंद रखी है?  

Dakhal News

Dakhal News 16 September 2020


bhopal, Food minister, retaliates , Congress launches, IAS in elections

भोपाल। मध्य प्रदेश में विधानसभा उपचुनाव की सुगबुगाहट तेज हो गई है। भाजपा और कांग्रेस नेता जनसभाओं के जरिए जनता के बीच जाकर उनकी नब्ज टटोल रहे हैं। कांग्रेस की तरफ से उपचुनाव के प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी गई। वहीं अभी भाजपा की तरफ से प्रत्याशियों की सूची का इंतजार है। कांग्रेस ने उपचुनाव में राज्य प्रशासनिक सेवा के एक अधिकारी को प्रदेश के खाद्य मंत्री बिसाहूलाल सिंह के सामने उतारने जा रही है। जिस पर मंत्री बिसाहूलाल हमला बोला है।   मंत्री बिसाहूलाल ने बुधवार को मीडिया से बातचीत करते हुए चुनाव में राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी को अपना प्रतियोगी उम्मीदवार बनाए जाने पर कांग्रेस पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि कांग्रेस पार्टी ऐसे उम्मीदवार को उनके सामने उतार रही है जिसने शासकीय कर्मचारी होते हुए गरीबों की सेवा नहीं की, उनका काम नहीं किया। वही राशन घोटाले को लेकर उन्होंने कहा कि अगर घोटाले के प्रमाण उनके सामने प्रस्तुत किए जाएंगे तो वह उन पर कार्रवाई करेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 16 September 2020


bhopal, Water transported, farms,en-Betwa Link project,approved, Chief Minister

छतरपुर/भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि अतिवृष्टि के कारण जिन किसानों की फसलें खराब हुई हैं, उनका सर्वे कर हरसंभव सहायता की जाएगी। किसानों के साथ अन्याय नहीं होगा। उन्होंने कहा कि केन बेतवा लिंक परियोजना को स्वीकृत कर छतरपुर जिले के प्रत्येक खेत तक पानी पहुँचाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने यह बातें मंगलवार को छतरपुर जिले की तहसील बड़ामलहरा के ग्राम लिधौरा में काठन वृहद सिंचाई परियोजना के भूमिपूजन एवं हितग्राही सम्मेलन को संबोधित करते हुए कही। इस अवसर पर उन्होंने 544 करोड़ रुपये की लागत विकास कार्यों का भूमिपूजन और लोकार्पण किया। जिसमें 394 करोड़ रुपये की काठन सिंचाई परियोजना का भूमिपूजन भी शामिल है। इस परियोजना से 74 गांव के 15 हजार हेक्टेयर में सिंचाई होगी। इस अवसर पर विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को लाभांवित किया गया। जिनमें वन अधिकार पट्टों का वितरण, लाड़ली लक्ष्मी योजना, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना, पीएम स्वनिधि योजना के हितग्राही शामिल हैं। कार्यक्रम का शुभारंभ कन्या पूजन से हुआ। इस अवसर पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री उमा भारती, लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव, सांसद वीडी शर्मा, नागरिक आपूर्ति निगम के अध्यक्ष प्रद्युम्न सिंह लोधी, विधायकगण सहित जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।हीरा खदानों में 75 प्रतिशत रोजगार बुन्देलखंड के युवाओं कोमुख्यमंत्री ने कहा कि क्षेत्र में विकास के जो कार्य ठप हो गए थे, उन्हें पुनः प्रारंभ किया जाएगा। स्थानीय उद्योगों, जिले की हीरों की खदानों में 75 प्रतिशत नौकरियाँ बुंदेलखण्ड के युवाओं को मिलेंगी। छतरपुर में मेडिकल कॉलेज का कार्य शुरू किया जाएगा। संबल योजना में गरीबों को लाभ दिलाया जाएगा। किसानों के साथ अब न्याय होगा। उन्होंने कहा कि 18 सितम्बर को 20 लाख किसानों के खातों में फसल बीमा 4600 करोड़ की राशि डाली जाएगी, 16 सितम्बर को मध्यप्रदेश के 37 लाख लोगों को 1 रुपये प्रति किलो की दर से गेहूँ मिलना शुरू हो जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आशीर्वाद से छतरपुर जिले के 88 हजार 773 गरीबों को सस्ता राशन मिलना शुरू हो जाएगा। जल-जीवन मिशन के तहत प्रत्येक गांव नलों से पानी मिलेगा।लिधौरा में स्टेडियम और घुवारा में कॉलेजमुख्यमंत्री ने कहा कि लिधौरा में स्टेडियम बनेगा, हाईस्कूल का उन्नयन होगा, घुवारा में अगले सत्र से कॉलेज शुरू होगा, भीमकुण्ड पर्यटन स्थल बनेगा, बड़ामलहरा में 100 बिस्तर का अस्पताल उन्नयन होगा।  कार्यक्रम में पूर्व केन्द्रीय मंत्री उमा भारती ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की प्रशंसा करते हुए कहा कि उनमें गम्भीरता, परिपक्वता, सहनशीलता और शालीनता हैं। जितने अच्छे तरीके से वे सरकार चला रहे हैं उतने अच्छे से मैं भी नहीं चला पाती। मुख्यमंत्री चौहान एक गृहस्थ संत की तरह लोगों की सेवा कर रहे हैं। पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि आत्मनिर्भर देश के बनाने में मध्यप्रदेश एक मॉडल स्टेट के रूप में कार्य करेगा। यहां सारे संसाधन उपलब्ध हैं। परिश्रम करने वाले लोग हैं। प्राकृतिक संपदा है। अब विकास के मामले में बुंदेलखण्ड पीछे नहीं रहेगा। बांध के बन जाने से सिंचाई परियोजना के पूर्ण होने पर बुंदेलखण्ड की गरीबी दूर होगी। परकेपिटा इनकम के मामले में बुंदेलखण्ड में बढ़ोत्तरी होगी।

Dakhal News

Dakhal News 15 September 2020


bhopal, Kamal Nath, government cheated, Shivraj government,Vishnudutt Sharma

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा है कि कांग्रेस के लिए गरीब मात्र वोट बैंक हैं, जबकि भारतीय जनता पार्टी के लिए गरीबों का कल्याण ही मिशन है। 15 महीने रही कमलनाथ सरकार ने गरीबों के जनकल्याण की सारी योजनाएं बंद कर दी थी। कांग्रेस ने गरीबों का शोषण किया,  वहीं भारतीय जनता पार्टी की सरकार गरीबों के जीवन में खुशियों के रंग भरने का काम कर रही है। 16 सितंबर को भाजपा सरकार प्रदेश के गरीब परिवारों को अन्न उत्सव के माध्यम से राशन पर्ची का वितरण करेंगी। यह आयोजन अभी तक का सबसे बड़ा कार्यक्रम है जिसके माध्यम से 37 लाख परिवार लाभान्वित होंगे।   प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि इंदिरा गांधी ने गरीबी हटाओ का नारा दिया था, लेकिन गरीबी नहीं हटी। कांग्रेस में कई पीढ़ियां बदल गई, लेकिन गरीबी हटाओ का नारा नहीं बदला। कांग्रेस ने गरीबी हटाने के बजाए गरीबों को ही हटाने का काम किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री रहते कमलनाथ ने 15 महीने इसी गरीब विरोधी मानसिकता के साथ दमनपूर्व काम किया। भाजपा सरकार ने 15 सालों में गरीबों के कल्याण के लिए जो योजना चलायी थी उसे कमलनाथ सरकार ने बंद कर दिया था। गरीबों का जीवन संवारने वाली संबल योजना को कमलनाथ सरकार ने बंद कर गरीबों को अंतिम क्षणों में मिलने वाली राहत बंद कर दी थी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव में हर वर्ग से बड़े-बड़े वादे किए थे, जनता ने उन्हें सेवा का मौका दिया, लेकिन कांग्रेस ने जनता को धोखा दिया। उन्होंने कहा कि उपचुनाव में फिर कांग्रेस जनता को भ्रमित कर रही है, लेकिन जनता कांग्रेस के इस बहकावे में नहीं आने वाली। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी गरीबों की सेवा के लिए समर्पित है। भाजपा की सरकार ने कोरोना संकटकाल के विपरीत समय में किसान, महिला एवं गरीब तबके को राहत देने का काम किया है। रेहड़ी, पटरी और खोमचे लगाकर अपनी आजीविका चलाने वाले छोटे व्यापारियों को लाभ दिया। वहीं प्रधानमंत्री आवास योजना के 1.75 लाख हितग्राहियों को आवास की सौगात दी। 16 सितंबर को 37 लाख हितग्राहियों को राशन, पर्ची वितरण का कार्यक्रम होगा। जिसके माध्यम से गरीबों की जिंदगी में खुशियों के रंग आयेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 15 September 2020


bhopal, Kamal Nath, government cheated, Shivraj government,Vishnudutt Sharma

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा है कि कांग्रेस के लिए गरीब मात्र वोट बैंक हैं, जबकि भारतीय जनता पार्टी के लिए गरीबों का कल्याण ही मिशन है। 15 महीने रही कमलनाथ सरकार ने गरीबों के जनकल्याण की सारी योजनाएं बंद कर दी थी। कांग्रेस ने गरीबों का शोषण किया,  वहीं भारतीय जनता पार्टी की सरकार गरीबों के जीवन में खुशियों के रंग भरने का काम कर रही है। 16 सितंबर को भाजपा सरकार प्रदेश के गरीब परिवारों को अन्न उत्सव के माध्यम से राशन पर्ची का वितरण करेंगी। यह आयोजन अभी तक का सबसे बड़ा कार्यक्रम है जिसके माध्यम से 37 लाख परिवार लाभान्वित होंगे।   प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि इंदिरा गांधी ने गरीबी हटाओ का नारा दिया था, लेकिन गरीबी नहीं हटी। कांग्रेस में कई पीढ़ियां बदल गई, लेकिन गरीबी हटाओ का नारा नहीं बदला। कांग्रेस ने गरीबी हटाने के बजाए गरीबों को ही हटाने का काम किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री रहते कमलनाथ ने 15 महीने इसी गरीब विरोधी मानसिकता के साथ दमनपूर्व काम किया। भाजपा सरकार ने 15 सालों में गरीबों के कल्याण के लिए जो योजना चलायी थी उसे कमलनाथ सरकार ने बंद कर दिया था। गरीबों का जीवन संवारने वाली संबल योजना को कमलनाथ सरकार ने बंद कर गरीबों को अंतिम क्षणों में मिलने वाली राहत बंद कर दी थी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव में हर वर्ग से बड़े-बड़े वादे किए थे, जनता ने उन्हें सेवा का मौका दिया, लेकिन कांग्रेस ने जनता को धोखा दिया। उन्होंने कहा कि उपचुनाव में फिर कांग्रेस जनता को भ्रमित कर रही है, लेकिन जनता कांग्रेस के इस बहकावे में नहीं आने वाली। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी गरीबों की सेवा के लिए समर्पित है। भाजपा की सरकार ने कोरोना संकटकाल के विपरीत समय में किसान, महिला एवं गरीब तबके को राहत देने का काम किया है। रेहड़ी, पटरी और खोमचे लगाकर अपनी आजीविका चलाने वाले छोटे व्यापारियों को लाभ दिया। वहीं प्रधानमंत्री आवास योजना के 1.75 लाख हितग्राहियों को आवास की सौगात दी। 16 सितंबर को 37 लाख हितग्राहियों को राशन, पर्ची वितरण का कार्यक्रम होगा। जिसके माध्यम से गरीबों की जिंदगी में खुशियों के रंग आयेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 15 September 2020


bhopal, Ministers should participate, every district, poor welfare week, CM Shivraj

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश में 16 सितम्बर से 23 सितम्बर तक गरीब कल्याण सप्ताह में मंत्रियों को जन-कल्याण के कार्यक्रमों में सहभागिता करने को कहा है। यह कार्यक्रम निरंतर 8 दिन राज्य और जिला स्तर पर होंगे। फेसबुक, ट्विटर और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से इन कार्यक्रमों से लाखों लोग जुड़ेंगे। मुख्यमंत्री ने इन कार्यक्रमों से अधिकाधिक लोगों को जोडऩे के निर्देश सभी विभागों को दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह कार्यक्रम किसी एक या दो विभाग के न होकर राज्य सरकार के हैं। इनसे जन-जन के कल्याण का उद्देश्य पूर्ण हो रहा है। अत: कार्यक्रमों में प्रत्येक विभाग सक्रिय रूप से शामिल हों।   मुख्यमंत्री ने यह बातें मंगलवार को मंत्रि-परिषद की बैठक प्रारंभ होने से पहले मंत्रियों से चर्चा करते हुए कही। उन्होंने कहा कि 17 सितम्बर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जन्म दिवस है। वह एक व्यक्ति नहीं संस्था हैं। उनके ह्रदय में बचपन से निर्धनों के प्रति करूणा का भाव रहा है। उनके बाल्यकाल से साहस के वृतांत जानने को मिलते रहते हैं। नरेन्द्र मोदी जी ने स्वामी विवेकानंन्द का साहित्य पढ़ा और समाज सेवा के लिये जीवन अर्पित किया है। वे जिस भी संगठन से जुड़े, उसे गतिशील बनाया।    मोदी जी के सक्षम नेतृत्व में भारत बन गया एक महाशक्ति   मुख्यमंत्री ने कहा जब गुजरात की बेहाल दशा थी, तब नरेन्द्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री बने और उन्होंने गुजरात की कायापलट कर दी। गुजरात मॉडल भी लोकप्रिय हो गया। वे कला, संस्कृति, इतिहास के अध्येता हैं। वर्ष 2014 से उन्होंने गौरवशाली, वैभवशाली और समृद्ध भारत के निर्माण के लिये प्रभावी कदम उठाये हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि नरेन्द्र मोदी के सक्षम नेतृत्व मे भारत एक महाशक्ति बन गया है। सर्जिकल स्ट्राइक का उदाहरण हो या चीन से जूझने का निर्णय, उन्होंने देश को बदल कर रख दिया है। अयोध्या के मामले के साथ ही कश्मीर से धारा 370 समाप्त करने का मामला हो अथवा तीन तलाक और नागरिकता कानून का विषय हो, उनके साहस से सभी परिचित हैं। वे राष्ट्रभक्ति के भाव से कार्य करने वाले योगी प्रधानमंत्री हैं।   मध्यप्रदेश में गरीब कल्याण सप्ताह   मुख्यमंत्री ने बताया कि मध्यप्रदेश में गरीब सप्ताह के अंतर्गत 16 सितम्बर से 23 सितम्बर तक विभिन्न जन-कल्याणकारी योजनाओं में हितग्राहियों को लाभान्वित करने का कार्यक्रम निर्धारित किया गया है। यह कार्यक्रम गरीबों की जिंदगी में प्रसन्नता के रंग भरेंगे। उन्होंने बताया कि 16 सितम्बर को अन्न उत्सव का आयोजन होगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि 17 सितम्बर को प्रधानमंत्री के जन्म दिवस पर आंगनवाड़ी केन्द्रों में कुपोषित बच्चों को दूध बांटा जाएगा। इसी दिन सरपंचों के उन्मुखीकरण और लाड़ली लक्ष्मी योजना की राशि का वितरण भी होगा। मंत्रिगण इन कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे।    मुख्यमंत्री ने बताया कि 18 सितम्बर को 18 लाख किसानों के खातों में साढ़े चार हज़ार करोड़ रुपये की फसल बीमा राशि जमा की जाएगी। इसी तरह 19 सितम्बर को वनाधिकार पट्टों का वितरण और 20 सितम्बर को स्व-सहायता समूहों के सशक्तिकरण के लिये उनको 150 करोड़ रुपये की राशि देने का कार्य किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि 21 सितम्बर को ग्रामीण क्षेत्र के स्ट्रीट वेंडर्स को लाभान्वित किया जाएगा। जिसमें प्रति हितग्राही 10-10 हजार रुपये की ऋण राशि, कार्यशील पूंजी के रूप में प्राप्त कर अपने लघु व्यवसाय का उन्नयन कर सकेंगे।   मुख्यमंत्री ने बताया कि गरीब कल्याण सप्ताह में 22 सितम्बर को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि में हितग्राहियों को किसान क्रेडिट कार्ड का वितरण होगा। किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण वितरण के लिये 800 करोड़ रुपये की राशि सहकारी बैंकों में जमा करवाई जाएगी। मुख्यमंत्री ने बताया कि 23 सितम्बर को सम्बल योजना में हितग्राहियों को हित लाभ दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सभी कार्यक्रम कोरोना काल में एक साथ विभिन्न वर्गों को लाभान्वित कर प्रदेश की तकदीर और तस्वीर बदलने का कार्य करेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 15 September 2020


ratlam, Making a policy, promote small-medium industries , reaching every district

रतलाम। सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा ने कहा कि तालाबंदी के पश्चात तथा कोरोना काल में लघु, मध्यम उद्योगों का महत्व बढ़ गया है। यह उद्योग सबसे ज्यादा रोजगार देने वाले उद्योग है। स्थानीय फीडबैक के आधार पर लघु, मध्यम उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए वे विभिन्न जिलों में पहुंचकर  स्थिति का अध्ययन कर रहे हैं, ताकि इन उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए नीति तैयार की जा सके। उन्होंने नई औद्योगिक इकाईयों की स्थापना हेतु 10 दिनों में एक्शन प्लान तैयार करने के निर्देश दिए। जिले में 100 लघु-मध्यम औद्योगिक इकाईयों की स्थापना के प्रस्ताव तैयार करने का लक्ष्य है। यह प्रस्ताव एक माह में तैयार करने का कहा गया है।    औद्योगिक संभावनाओं की पड़ताल करें   सोमवार को सर्किट हाउस पर विभागीय अधिकारियों की बैठक में इस संबंध में चर्चा कर यह निर्देश दिए गए। मंत्री