समाज


BHOPAL,MP 38 crore ,sanctioned, 41 water structures, three districts

भोपाल। प्रदेश की समूची ग्रामीण आबादी को घरेलू नल-कनेक्शन से पेयजल की आपूर्ति किए जाने के लिए जल-संरचनाओं की स्थापना एवं विस्तार के कार्य किए जा रहे हैं। राष्ट्रीय जल-जीवन मिशन के अन्तर्गत लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा शहडोल संभाग के तीन जिलों क्रमश: शहडोल, सिंगरौली तथा अनूपपुर में 41 ग्रामीण नल-जल प्रदाय योजनाओं के लिए 37 करोड़, 91 लाख 10 हजार रुपये की मंजूरी दी गई है।   जनसम्पर्क अधिकारी समर चौहान ने शुक्रवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि राष्ट्रीय जल जीवन मिशन का उदे्श्य मध्यप्रदेश के समग्र ग्रामीण अंचल में पेयजल उपलब्ध करवाना है। ग्रामीणजनों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए जरूरी है कि उन्हें गुणवत्तापूर्ण पेयजल की आपूर्ति हो। ग्रामीण आबादी को घर बैठे ही पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए जहाँ जलस्त्रोत हैं, वहाँ उनका समुचित उपयोग कर आसपास के ग्रामीण रहवासियों को पेयजल प्रदाय किया जायेगा और जिन ग्रामीण क्षेत्रों में जलस्त्रोत नहीं हैं वहाँ यह निर्मित किए जायेंगे।   उन्होंने बताया कि शहडोल संभाग के शहडोल जिले की 15, सिंगरौली जिले की 05 तथा अनूपपुर जिले की 21 जलसंरचनाएं शामिल हैं। इन जिलों के लिए नवीन योजनाओं के साथ ही विभिन्न ग्रामों में पूर्व से निर्मित पेयजल अधोसंरचनाओं को नये सिरे से तैयार कर रेट्रोफिटिंग के अन्तर्गत कार्य किया जा रहा है।

Dakhal News

Dakhal News 4 December 2020


indore,Bulldozer , illegal capture , crook Islam Patel ,under anti-mafia campaign

इंदौर। मध्यप्रदेश में शिवराज सरकार ने गुंडे बदमाशों के खिलाफ खुलकर मोर्चा खोल दिया है और उनके ठिकानों को बर्बाद करने दौर लगातार जारी है। इसी क्रम में शुक्रवार सुबह इंदौर जिला प्रशासन ने एंटी माफिया अभियान के तहत खजराना इलाके के जमजम चौराहा पर गुंडे इस्लाम पटेल के अवैध कब्जों पर कार्यवाई करते हुए उसे धराशायी किया। नगर निगम के अमले ने जिला प्रशासन और पुलिस की मौजूदगी में अवैध मकान और दुकान तोड़े।   जिला प्रशासन लगातर शहर में गुंडों और बदमाशों के अवैध कब्जों के खिलाफ कार्रवाई कर रहा है। प्रशासन ने आज इस्लाम पटेल के खिलाफ कार्यवाई की। एंटी माफिया अभियान के तहत यह कार्रवाई हो रही है। मौके पर विरोध प्रदर्शन को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।    उल्‍लेखनीय है कि इस्लाम पटेल के खिलाफ शहर के अलग-अलग थानों में 420, 307 सहित 9 केस दर्ज है। एंटी माफिया अभियान के तहत टीम कबूतर खाना में भी गुंडो के मकान को तोडऩे की कार्रवाई की जा रही है। उल्लेखनीय है कि ज़िला प्रशासन, निगम और पुलिस की संयुक्त टीम लगातार बीते 10-12 दिनों से लगातार कार्रवाई कर रही है। टीम ने कई गुंडे बदमशों की लिस्ट बनाई है, जिसके खिलाफ अब कार्रवाई हो रही है।

Dakhal News

Dakhal News 4 December 2020


bhopal, 339 new cases ,orona found, two people also died

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना का कहर जारी है। यहां दीपावली के बाद संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यहां बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना के 339 नये मामले सामने आए हैं, जबकि दो लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 33,263 और मृतकों की संख्या 526 हो गई है।   भोपाल सीएमएचओ कार्यालय द्वारा शुक्रवार को जानकारी दी गई है कि राजधानी में बीते 24 घंटों में प्राप्त जांच रिपोर्ट में 339 नये व्यक्तियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके बाद भोपाल में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 32,924 से बढक़र 33,263 हो गई है। वहीं, भोपाल में कोरोना से दो लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यह कोरोना से मरने वालों की संख्या 526 हो गई है। हालांकि, यहां संक्रमित मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं। यहां अब तक 29,506 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं, लेकिन अधिक संख्या में नये संक्रमित मिलने से सक्रिय मरीजों की संख्या बढक़र 2800 के करीब पहुंच गई है  जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है। भोपाल में 60 फीसदी मरीज घरेलू एकांतवास में उपचार करा रहे हैं।

Dakhal News

Dakhal News 4 December 2020


ujjain,07 new cases ,corona found, 26, Damoh

उज्जैन/दमोह। प्रदेश के विभिन्न जिलों में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों के पाए जाने का सिलसिला जारी है। बीते 24 घंटों में उज्जैन जिले में जहां 26 नए संक्रमित पाए गए हैं, वहीं दमोह जिले में 07 नए मरीज मिले हैं।    उज्जैन में 4322 पर पहुंची संक्रमितों की संख्या प्रदेश के उज्जैन जिले में कोरोना वायरस के 26 नए मामले सामने आने के बाद कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 4322 हो गई है। इसमें से 3922 मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार बीते 24 घंटे में 877 सैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई, जिनमें से 26 कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। नए संक्रमितों में से 20 उज्जैन शहर के तथा नागदा और बड़नगर के 3-3 मरीज शामिल हैं।   दमोह में तीन पुरुष और चार महिलाएं संक्रमितमुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ संगीता त्रिवेदी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार दमोह जिले में बीते 24 घंटों में कोरोना के सात नए संक्रमित मरीज मिले हैं। इन्हें मिलाकर जिले में संक्रमितों की संख्या 2523 पर पहुंच गई है। नए मरीजों में तीन पुरुष और चार महिलाएं शामिल हैं। बताया गया कि जिले में अभी तक 110 मरीजों की मृत्यु हो चुकी है। अभी तक 2117 व्यक्ति स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं जबकि वर्तमान में 296 एक्टिव मरीज हैं।

Dakhal News

Dakhal News 3 December 2020


bhopal,Relief cold, MP at present, cold spell, begin after December 4

भोपाल। वर्तमान में उत्तर भारत कड़ाके की ठंड की चपेट में है। वहां से आ रही सर्द हवाओं से मध्य प्रदेश में भी ठिठुरन बढ़ गई है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक चार दिसंबर से उत्तर भारत के पहाड़ों पर जबरदस्त बर्फबारी शुरू होने की संभावना है। बर्फबारी का सिलसिला दो-तीन दिन तक जारी रह सकता है, लेकिन इस दौरान हवा का रुख बदलने से मध्य प्रदेश में ठंड से कुछ राहत मिलने लगेगी। हवा का रुख वापस उत्तरी होते ही मध्य प्रदेश में भी कड़ाके की ठंड का दौर शुरू होने के आसार हैं।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने गुरुवार को जानकारी देते हुए बताया कि तीन दिन से हवा का रुख उत्तरी बना हुआ है। इस वजह से राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में कमी दर्ज की जा रही है। वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ ईरान और अफगानिस्तान के बीच में बना हुआ है। इस सिस्टम के चार दिसंबर को उत्तर भारत के पहाड़ी इलाकों में पहुंचने की संभावना है। इसके कारण वहां बर्फबारी और बारिश होगी, लेकिन इस सिस्टम के सक्रिय होते ही मप्र के आसपास ऊपरी हवा का चक्रवात बनेगा। इससे हवा का रुख बदलकर दक्षिण-पूर्वी हो जाएगा। इससे वातावरण में नमी बढऩे लगेगी और कहीं-कहीं बादल भी छाने लगेंगे। इससे रात के तापमान में इजाफा होने लगेगा। इससे ठंड से राहत मिलने लगेगी। हालांकि दो दिन बाद पश्चिमी विक्षोभ के आगे बढ़ते ही एक बार फिर हवाओं का रुख बदलकर उत्तरी हो जाएगा। इससे बर्फीली हवाओं के दखल से मध्य प्रदेश में न्यूनतम तापमान तेजी से लुढक़ने लगेगा।  दिसंबर के मध्य में राजधानी सहित पूरे प्रदेश में कड़ाके की ठंड पडऩे की संभावना बन रही है।

Dakhal News

Dakhal News 3 December 2020


indore, Land mafia, demolishes ,illegal construction, babbu-chabbu

इंदौर। इन दिनों शहर में गुंडे-बदमाशों और भू माफिया के रसूख के साथ ही उनकी आर्थिक कमर तोडऩे के लिए जिला प्रशासन, पुलिस और नगर निगम द्वारा विशेष अभियान चलाया जा रहा है, जिसमें इनके अवैध निर्माणों और कब्जों को जमींदोज किया जा रहा है। इसी कड़ी में मंगलवार सुबह भारी पुलिस बल की मौजूदगी में निगम की टीम खजराना इलाके में कुख्यात भू माफिया बब्बू और छब्बू के यहां कार्रवाई करने पहुंची। इन दोनों अपराधियों की दो आलीशान कोठियों को जमींदोज किया गया।    खजराना क्षेत्र के चर्चित और बड़े भूमाफिया के रूप में पहचाने जाने वाले बब्बू उर्फ सुल्तान और छब्बू उर्फ शाबिर पुत्र नन्हें खां के खिलाफ कार्रवाई के लिए सुबह 5 बजे से ही नगर निगम की सारी टीम सक्रिय हो गई थी।   सबसे पहले बब्बू के यहां कार्रवाई    कार्रवाई को अंजाम देने के लिए अपर आयुक्त देवेंद्र सिंह पूरी टीम को लेकर सुबह 6 बजे सबसे पहले बब्बू के मकान पर पहुंचे। यह मकान करीब 4000 स्क्वेयर फीट के प्लाट पर जी प्लस 3 के रूप में 4 मंजिला बना हुआ था। इसे मकान कम और आलीशान कोठी ज्यादा कहा जा सकता है। इस मकान को तोडऩे की कार्रवाई जब निगम की टीम ने शुरू की तो मकान की मजबूती सामने आ गई। यह मकान इतना मजबूत बना हुआ था कि वह जेसीबी और पोकलेन के पंजों की मार को भी सहन कर रहा था। इस मकान को तोडऩे में निगम के अधिकारियों के पसीने छूट गए। इस मकान को तोडऩे की कार्रवाई को पूरा करने में ही 2 घंटे का समय लग गया। उसके बाद में फिर नीचे की तरफ से बचे हुए निर्माण को तोडऩे का काम किया जाता रहा।    छब्बू की थी आलीशान कोठी    इस कार्रवाई को पूरा करने के बाद निगम की टीम छब्बू के मकान को तोडऩे पहुंची। छब्बू का मकान भी 5000 स्क्वेयर फीट के प्लाट पर जी प्लस 3 के रूप में बना हुआ है वह भी आलीशान कोठी है। इस कोठी को तोडऩे की कार्रवाई को सुबह करीब 8.30 बजे जाकर शुरू किया जा सका। मकान में कोई नहीं रहता था नगर निगम की टीम जब बब्बू के मकान को तोडऩे के लिए पहुंची तो इस टीम को लगा कि इतने बड़े मकान का सामान खाली करने में ही काफी समय लग जाएगा लेकिन टीम को उस समय राहत मिल गई जब मकान में जाकर देखा तो यह पाया कि पूरे मकान में कोई सामान नहीं था।   6 पुलिस थानों का बल लगाया  कार्रवाई के दौरान विरोध और किसी भी तरह की स्थिति से निपटने के लिए पुलिस ने पूरी तैयारी कर ली थी। इस कार्यवाही के दौरान इंदौर नगर निगम के साथ पुलिस विभाग के द्वारा छह पुलिस थानों का बल लगाया गया। इसमें पुलिस थाना खजराना, कनाडिया, लसूडिया, विजयनगर, एमआईजी और पलासिया के पुलिस बल को लगाया गया। पुलिस की भारी मौजूदगी का ही यह परिणाम था कि इस कार्यवाही के दौरान कहीं भी बलपूर्वक कार्रवाई को रुकवाने की कोशिश नहीं की जा सकी।   निगम ने पांच जेसीबी लगाई  इंदौर नगर निगम के द्वारा कार्यवाही के दौरान कार्यवाही को गति देने के लिए पांच जेसीबी मशीन लगा दी गई। इन मशीनों के माध्यम से एक ही मकान को एक साथ कई मशीनें लगाकर थोड़ा जाने लगा। यही कारण है कि कार्रवाई को तेज गति से किया जा सका।    कागज दिखाने सामने आई बब्बू की पत्नी  नगर निगम के द्वारा जब बब्बू के मकान को तोडऩे की कार्रवाई शुरू की जा रही थी तब इस कार्रवाई पर आपत्ति लेते हुए मकान के दस्तावेज दिखाने के लिए बब्बू की बीवी सामने आई। उसके द्वारा नगर निगम के अधिकारियों को दस्तावेज दिखाने की कोशिश की गई। इन अधिकारियों ने दस्तावेज देखने से इंकार कर दिया और उन्हें एसडीएम के पास भेज दिया। एसडीएम को इस महिला ने अपने बंगले के दस्तावेज दिखाए। एसडीएम ने कागज देखने की कोशिश की और कहा कि आप आवेदन देना तब इनका परीक्षण कराएंगे।   महिलाओं ने संभाला मोर्चा  टीम जब खजराना की अली कॉलोनी में स्थित छब्बू के मकान को तोडऩे के लिए पहुंची तो वहां महिलाओं के समूह ने दूसरा मकान दिखाकर कहा कि यह भी अवैध है उसे भी तोड़ो। निगम की टीम करीब 8.30 बजे छब्बू के मकान को तोडऩे के लिए पहुंची। इस टीम को वहां पहुंचने के बाद सबसे पहले मकान को खाली करने की जिम्मेदारी निभाना पड़ी। इस मकान के सारे सामान को निकालकर मकान के ठीक सामने बने मैदान रूपी बगीचे में रख दिया गया। जब सामान को निकालने की कार्रवाई की जा रही थी उसी समय विवाद होने की शुरुआत भी हो गई। इस मकान को टूटने से बचाने के लिए महिलाओं के समूह ने मोर्चा खोला। बड़ी संख्या में महिलाएं मौके पर पहुंची। इनमें छब्बू के परिवार की महिलाएं भी शामिल थी। इन महिलाओं का कहना था कि इस मकान को नहीं तोड़ा जाना चाहिए। जब इन महिलाओं की बात को नहीं सुना गया तो फिर इन महिलाओं ने आक्रामक तेवर अपना लिए। इन महिलाओं के द्वारा समीप ही बनी एक आलीशान कोठी की तरफ इशारा करते हुए निगम अधिकारियों से कहा गया कि यह भी अवैध कोठी बनी हुई है। बहुत आलीशान बनी है जब यहां तक आए हो तो इसे भी तोड़ कर चले जाओ। निगम के अधिकारी इन महिलाओं की बात पर ध्यान देने के लिए तैयार नहीं थे।   पोकलेन में लगी आग, 20 मिनट रुकी कार्रवाई  निगम ने बब्बू के मकान पर धावा बोलने के लिए 5 जेसीबी-पोकलेन लगाई थी। कार्रवाई के दौरान एक पोकलेन मशीन लोड बढऩे से शार्ट सर्किट का शिकार हो गई। पोकलेन से शार्टसर्विसट होने से पहले चिंगारी निकली और फिर धुआं निकलने लगा। निगम के कर्मचारियों ने जैसे ही धुआं देखा तो चिल्लाते हुए ड्रायवर को रुकने के लिए कहा जिसके बाद करीब 20 मिनिट कार्रवाई रोकी गई और फिर शार्ट सर्विसट को ठीक करने के बाद पोकलेन को चालू किया गया।   न्यायालय के स्थगन के कारण रूक गया था तोमर का मकान    नगर निगम की टीम आज खजराना क्षेत्र में भू-माफिया बब्बू छब्बू के मकान को तोडऩे की कार्रवाई को अंजाम देने के लिए पहुंची थी। इन भू माफियाओं पर कार्रवाई करने के दौरान ही इस टीम के द्वारा खजराना क्षेत्र के इदरीश नगर में हिस्ट्रीशीटर अपराधी रमेश तोमर के भी एक मकान को तोड़ दिया गया। पिछले दिनों नगर निगम के द्वारा इदरीश नगर में कार्रवाई करते हुए तोमर के चार मकान तोड़े गए थे। जब इन मकानों को तोड़ा जा रहा था तभी उसके पास में मकान पर न्यायालय का स्थगन आ गया था। उक्त स्थगन के कारण नगर निगम के द्वारा कार्रवाई को रोक दिया गया था और उस मकान को नहीं तोड़ा गया था। उसके बाद निगम के वकील के द्वारा न्यायालय में प्रस्तुत होकर इस स्थगन आदेश को खारिज करवा दिया गया। आज निगम ने खजराना में पहुंचकर कार्रवाई को अंजाम देने के दौरान इदरीश नगर में जाकर रमेश तोमर के एक पुराने बचे हुए मकान को भी एक झटके में तोड़ दिया।

Dakhal News

Dakhal News 2 December 2020


Bhopal, proposal is approved, attraction ,Van Vihar ,increase further

भोपाल। अपने वन्यप्राणियों की वजह से राजधानी स्थित वन विहार नेशनल पार्क सैलानियों के आकर्षण का केंद्र रहा है। वन विहार के प्रति पर्यटकों के इस आकर्षण को और बढ़ाने के लिए एक प्रस्ताव केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण को भेजा गया है। यदि इस प्रस्ताव को मंजूरी मिल जाती है, तो जल्द ही वन विहार में कई नए वन्यजीव देखने को मिल सकेंगे।    वन विहार नेशनल पार्क में मौजूद तरह-तरह के वन्यजीव हर आयुवर्ग और रुचि के पर्यटकों को लुभाते हैं। वन्यजीवों की इस विविधता को और बढ़ाने तथा उन्हें और प्रभावी तरीके से पर्यटकों के लिए प्रस्तुत करने के संबंध में एक प्रस्ताव हाल ही में वनविहार प्रबंधन ने केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण को भेजा है। वन विहार नेशनल पार्क के असिस्टेंट डायरेक्टर ए.के.जैन ने बुधवार को बताया कि केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण को छोटे मांसाहारी वन्यजीवों भेड़िया, लोमड़ी, जंगली स्वान तथा लकड़बग्घे के संबंध में प्रस्ताव भेजा गया है। इसके साथ ही शाकाहारी वन्यप्राणियों गौर, चौसिंघा और चिंकारा के डिस्प्ले तैयार करने तथा उनकी संख्या बढ़ाने की स्वीकृति भी मांगी गई है। गौरतलब है कि चौसिंघा, चिंकारा और गौर वन विहार में पहले से उपलब्ध हैं, लेकिन इनके प्रदर्शन के लिए विशेषीकृत बाड़े नहीं हैं।   अनुकूल हैं परिस्थितियां असिस्टेंट डायरेक्टर जैन ने बताया कि जिन वन्यजीवों के संबंध में केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण को प्रस्ताव भेजा गया है, उनके लिहाज से वनविहार की परिस्थितियां पूरी तरह अनुकूल हैं। खुले क्षेत्र में स्थित वनविहार का वातावरण इन सभी वन्यजीवों के लिए उपयुक्त है और इन जीवों को यहां रखने के लिए कोई अतिरिक्त इंतजाम नहीं करना पड़ेंगे। इसके अलावा वनविहार में इन जीवों को रखने तथा पर्यटकों के लिए प्रदर्शित करने के हिसाब से जगह की भी कोई कमी नहीं है।   लग सकते हैं दो सालवन विहार प्रबंधन का अनुमान है कि पर्यटकों के लिए वनविहार में इन वन्यजीवों को उपलब्ध कराने में लगभग दो साल का समय लग सकता है। केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण की अनुमति मिल जाने के बाद पूरे प्रोजेक्ट के संबंध में एस्टीमेट तैयार करके भेजा जाएगा। फिर इस एस्टीमेट के अनुसार राशि आवंटित होगी, जिसके बाद हाउसिंग आदि का काम शुरू किया जाएगा। इस पूरी प्रक्रिया में डेढ़ से दो साल लग सकते हैं।

Dakhal News

Dakhal News 2 December 2020


indore,Corona records, 595 new cases ,found , four people also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर जारी है। यहां दीपावली के बाद से कोरोना संक्रमित मरीजों के साथ-साथ मृतकों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। इंदौर में बीते 24 घंटों में कोरोना के रिकॉर्ड 595 नये मामले सामने आए हैं। यह संख्या एक दिन में अब तक की सबसे अधिक है। वहीं, बीते 24 घंटों में कोरोना से चार लोगों की मौत भी हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 43,286 और मृतकों का संख्या 767 हो गई है। इंदौर में लगातार ग्यारहवें दिन कोरोना के 500 से अधिक नये मामले सामने आए हैं।    इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने बुधवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा मंगलवार देर रात 5274 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 595 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 43,286 हो गई है। वहीं, इंदौर में बीते 24 घंटों में कोरोना से चार मरीजों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 767 हो गई है। हालांकि, यहां कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 37,963 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं, लेकिन लगातार अधिक संख्या में नये संक्रमित मिलने से यहां सक्रिय मरीजों की संख्या बढक़र 4556 हो गई है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है।    गौरतलब है कि नवम्बर के पहले सप्ताह में इंदौर में कोरोना के नये मरीजों की संख्या 100 से नीचे पहुंच गई थी, लेकिन एक सप्ताह बाद ही यह आंकड़ा दो सौ के पार पहुंचा और दीपावली के बाद यह संख्या पांच सौ के पार पहुंच गई है। अधिक संख्या में नये संक्रमित मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन में हडक़म्प का माहौल देखने को मिल रहा है तो वहीं लोगों में फिर कोरोना की दहशत फैल गई है।

Dakhal News

Dakhal News 2 December 2020


Indore, administration bulldozer, again, destroyed , illegal construction, crook Raghuvir

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में प्रशासन की गुंडों के खिलाफ कार्रवाई जारी है। इसी क्रम में मंगलवार सुबह जिला प्रशासन की टीम ने बदमाश रघुवीर सिकलीगर के अवैध मकान को ध्वस्त किया। इस दौरान मौके पर भारी पुलिस बल तैनात रहा। कार्रवाई के दौरान महिलाओं ने जमकर विरोध किया। उन्होंने मकान के दस्तावेज़ दिखाते हुए मकान नहीं तोडऩे की गुहार लगाई लेकिन प्रशासन ने एक नहीं सुनी। अपने घर को जमीदोज होता देख जमीन पर बैठी महिलाएं रोने लगी।   जानकारी के अनुसार आकाश नगर इलाके में स्थित बदमाश रघुवीर ने दो मंजिला अवैध मकान बना रखा था। सुबह निगम दल-बल के साथ यहां पहुंचा और बुलडोजर चलाकर कार्रवाई की। कार्रवाई के दौरान महिलाओं ने हंगामा किया। जिसे पुलिस बल ने काबू किया है। बता दें कि प्रदेश सरकार एंटी माफिया मुहिम चला रही है। जिसके तहत पुलिस ने 15 बड़े गुंडे और माफियाओं की लिस्ट बनाई है, जो लंबे समय से अवैध कब्जे कर रखे हैं। अब उन पर लगाकार कार्रवाई हो रही है। इससे पहले प्रशासन कम्प्यूटर बाबा और उनके करीबी रमेश तोमर के अवैध निर्माणों को भी ध्वस्त कर चुकी है।

Dakhal News

Dakhal News 1 December 2020


indore,542 new cases ,corona found, three people also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर जारी है। यहां दीपावली के बाद से कोरोना संक्रमित मरीजों के साथ-साथ मृतकों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। इंदौर में बीते 24 घंटों में कोरोना के 542 नये मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 42,691 और मृतकों का संख्या 763 हो गई है। इंदौर में लगातार दसवें दिन कोरोना के 500 से अधिक नये मामले सामने आए हैं।    इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने मंगलवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा सोमवार देर रात 5617 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 542 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 42,691 हो गई है। वहीं, इंदौर में बीते 24 घंटों में कोरोना से तीन मरीजों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 763 हो गई है। हालांकि, यहां कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 37,334 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं, लेकिन लगातार अधिक संख्या में नये संक्रमित मिलने से यहां सक्रिय मरीजों की संख्या बढक़र 4594 हो गई है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है।    गौरतलब है कि नवम्बर के पहले सप्ताह में इंदौर में कोरोना के नये मरीजों की संख्या 100 से नीचे पहुंच गई थी, लेकिन एक सप्ताह बाद ही यह आंकड़ा दो सौ के पार पहुंचा और दीपावली के बाद यह संख्या पांच सौ के पार पहुंच गई है। अधिक संख्या में नये संक्रमित मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन में हडक़म्प का माहौल देखने को मिल रहा है तो वहीं लोगों में फिर कोरोना की दहशत फैल गई है।

Dakhal News

Dakhal News 1 December 2020


bhopal,Pune-Jammuutvi, Jhelum and Mumbai-Firozpur, Punjab Mail ,begin from Tuesday

भोपाल। रेल प्रशासन द्वारा पुणे-जम्मूतवी-पुणे झेलम और मुम्बई के छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस स्टेशन से फिरोजपुर-छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस पंजाब मेल अगली सूचना तक अतिरिक्त स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया गया है। यह ट्रेनें दोनों दिशाओं में मंगलवार, 01 दिसम्बर से प्रतिदिन चलाई जाएंगी। यह स्पेशल एक्सप्रेस भोपाल रेल मंडल के विभिन्न स्टेशनों पर हाल्ट लेकर गंतव्य को जाएगी।   भोपाल रेल मंडल के जनसम्पर्क अधिकारी आईए सिद्दीकी ने सोमवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि गाड़ी संख्या 01077 पुणे-जम्मूतवी स्पेशल एक्सप्रेस आगामी मंगलवार, 01 दिसम्बर से अगली सूचना तक प्रतिदिन पुणे स्टेशन से शाम 5.20 बजे रवाना होकर अगले दिन सुबह 6.55 बजे इटारसी, 08.33 बजे हबीबगंज, 08.50 बजे भोपाल होते हुए तीसरे दिन सुबह 10.00 बजे जम्मूतवी स्टेशन पहुंचेगी। इसी प्रकार गाड़ी संख्या 01078 जम्मूतवी-पुणे स्पेशल एक्सप्रेस आगामी 03 दिसम्बर से अगली सूचना तक प्रतिदिन जम्मूतवी स्टेशन से रात 11.40 बजे रवाना होकर अगले दिन रात 11.15 बजे भोपाल, रात 11.32 बजे हबीबगंज, रात 01.00 बजे इटारसी होते हुए तीसरे दिन दोपहर 03.55 बजे पुणे स्टेशन पहुंचेगी।   यह स्पेशल ट्रेन भोपाल मंडल के खंडवा, छनेरा, हरदा, टिमरनी, बानापुरा, इटारसी, होशंगाबाद, हबीबगंज, भोपाल, विदिशा, गंजबासौदा, बीना स्टेशनों पर रुकेगी। इस ट्रेन में 02 वातानुकूलित द्वितीय श्रेणी, 06 वातानुकूलित तृतीय श्रेणी, 10 शयनयान श्रेणी, 03 सामान्य श्रेणी, 01 पेंट्री कार, 02 एसएलआर/डी सहित 24 डिब्बे रहेंगे।   इसी तरह गाड़ी संख्या 02137 छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस मुंबई-फिरोजपुर स्पेशल एक्सप्रेस मंगलवार, 01 दिसम्बर से अगली सूचना तक प्रतिदिन छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस स्टेशन से रात 7.35 बजे रवाना होकर अगले दिन सुबह 07.50 बजे इटारसी, सुबह 09.28 बजे हबीबगंज, सुबह 09.45 बजे भोपाल होते हुए तीसरे दिन सुबह 05.10 बजे फिरोजपुर स्टेशन पहुंचेगी। वहीं, गाड़ी संख्या 02138 फिरोजपुर-छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस मुंबई स्पेशल एक्सप्रेस आगामी 03 दिसम्बर से अगली सूचना तक प्रतिदिन फिरोजपुर स्टेशन रात 9.45 बजे रवाना होकर अगले दिन शाम 4.45 बजे भोपाल, शाम 5.02 बजे हबीबगंज, रात 6.42 बजे इटारसी होते हुए तीसरे दिन सुबह 07.35 बजे छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस स्टेशन पहुंचेगी।   यह स्पेशल ट्रेन रास्ते में भोपाल मंडल के खंडवा, खिरकिया, हरदा, बानापुरा, इटारसी, होशंगाबाद, हबीबगंज, भोपाल, विदिशा, गंजबासौदा, बीना स्टेशनों पर हाल्ट लेकर चलेगी। इस ट्रेन में 01 वातानुकूलित प्रथम सह द्वितीय श्रेणी, 02 वातानुकूलित द्वितीय श्रेणी, 06 वातानुकूलित तृतीय श्रेणी, 06 शयनयान श्रेणी, 04 सामान्य श्रेणी, 01 पेन्ट्री कार, 02 एसएलआर/डी सहित 22 डिब्बे रहेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 30 November 2020


bhopal,Reduced wind speed, relief from cold, weather will change, after December 3

भोपाल। चक्रवाती तूफान निवार के समाप्त होने से प्रदेश में हवाओं की रफ्तार अब कम हो गई है। उधर, कोई वेदर सिस्टम प्रदेश और आसपास सक्रिय नही रहने से वातावरण शुष्क हो गया है। इससे रात के तापमान में अब और गिरावट होने के आसार बढ़ गए हैं। मौसम विभाग के मुताबिक हवा का रुख उत्तरी बना रहने से दो-तीन दिन तक ठंड के तेवर तीखे बने रहने की संभावना है। इसके बाद मौसम के मिजाज में एक बार फिर बदलाव होगा और ठंड से कुछ राहत मिलेगी।   तीन दिसंबर के बाद मौसम में होगा बदलावरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि एक पश्चिमी विक्षोभ वर्तमान में ईरान पर है। इसके तीन दिसंबर के आसपास उत्तर भारत में पहुंचने की संभावना है। इसके अलावा बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इसके भी दो-तीन दिसंबर को चक्रवाती तूफान में परिवर्तित होकर तमिलनाडु के तट पर पहुंचने की संभावना है। इन दो सिस्टम के कारण हवाओं के रुख में बदलाव होगा। वातावरण में नमी बढ़ेगी। इससे न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी होने की संभावना है। इन सिस्टम के कमजोर पडऩे के बाद फिर ठंड की वापसी होगी।   मौसम विभाग द्वारा भोपाल, इंदौर सहित प्रदेश में ठंड का दीर्घकालिक पूर्वानुमान जारी किया गया। अगले चार महीने पश्चिमी मप्र के इंदौर, उज्जैन, भोपाल, ग्वालियर, चंबल व होशंगाबाद जिलों में रात का औसत तापमान सामान्य से एक से डेढ़ डिग्री कम रहेगा। दिन का तापमान सामान्य के आसपास रहेगा। ऐसे में इस बार इंदौर में रात में ठंडक ज्यादा बढऩे की संभावना है।    वहीं, पूर्वी मप्र में रात के तापमान में सामान्य से डेढ़ से दो डिग्री की गिरावट होगी। अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक रहेगा। इंदौर सहित पश्चिमी मप्र में इस बार पश्चिमी विक्षोभ ज्यादा प्रभावित करेगा। ऐसे में इन इलाकों में जनवरी व फरवरी में ओलावृष्टि की गतिविधियां तीन से चार बार हो सकती हैं। पूर्वानुमान के अनुसार प्रशांत महासागर में ला नीना का प्रभाव मध्यम रूप से बना रहेगा। इसके असर से पश्चिमी विक्षोभ ज्यादा आएंगे और तापमान में उतार-चढ़ाव भी देखने को मिलेगा।

Dakhal News

Dakhal News 30 November 2020


bhopal,Reduced wind speed, relief from cold, weather will change, after December 3

भोपाल। चक्रवाती तूफान निवार के समाप्त होने से प्रदेश में हवाओं की रफ्तार अब कम हो गई है। उधर, कोई वेदर सिस्टम प्रदेश और आसपास सक्रिय नही रहने से वातावरण शुष्क हो गया है। इससे रात के तापमान में अब और गिरावट होने के आसार बढ़ गए हैं। मौसम विभाग के मुताबिक हवा का रुख उत्तरी बना रहने से दो-तीन दिन तक ठंड के तेवर तीखे बने रहने की संभावना है। इसके बाद मौसम के मिजाज में एक बार फिर बदलाव होगा और ठंड से कुछ राहत मिलेगी।   तीन दिसंबर के बाद मौसम में होगा बदलावरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि एक पश्चिमी विक्षोभ वर्तमान में ईरान पर है। इसके तीन दिसंबर के आसपास उत्तर भारत में पहुंचने की संभावना है। इसके अलावा बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इसके भी दो-तीन दिसंबर को चक्रवाती तूफान में परिवर्तित होकर तमिलनाडु के तट पर पहुंचने की संभावना है। इन दो सिस्टम के कारण हवाओं के रुख में बदलाव होगा। वातावरण में नमी बढ़ेगी। इससे न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी होने की संभावना है। इन सिस्टम के कमजोर पडऩे के बाद फिर ठंड की वापसी होगी।   मौसम विभाग द्वारा भोपाल, इंदौर सहित प्रदेश में ठंड का दीर्घकालिक पूर्वानुमान जारी किया गया। अगले चार महीने पश्चिमी मप्र के इंदौर, उज्जैन, भोपाल, ग्वालियर, चंबल व होशंगाबाद जिलों में रात का औसत तापमान सामान्य से एक से डेढ़ डिग्री कम रहेगा। दिन का तापमान सामान्य के आसपास रहेगा। ऐसे में इस बार इंदौर में रात में ठंडक ज्यादा बढऩे की संभावना है।    वहीं, पूर्वी मप्र में रात के तापमान में सामान्य से डेढ़ से दो डिग्री की गिरावट होगी। अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक रहेगा। इंदौर सहित पश्चिमी मप्र में इस बार पश्चिमी विक्षोभ ज्यादा प्रभावित करेगा। ऐसे में इन इलाकों में जनवरी व फरवरी में ओलावृष्टि की गतिविधियां तीन से चार बार हो सकती हैं। पूर्वानुमान के अनुसार प्रशांत महासागर में ला नीना का प्रभाव मध्यम रूप से बना रहेगा। इसके असर से पश्चिमी विक्षोभ ज्यादा आएंगे और तापमान में उतार-चढ़ाव भी देखने को मिलेगा।

Dakhal News

Dakhal News 30 November 2020


bhopal,Reduced wind speed, relief from cold, weather will change, after December 3

भोपाल। चक्रवाती तूफान निवार के समाप्त होने से प्रदेश में हवाओं की रफ्तार अब कम हो गई है। उधर, कोई वेदर सिस्टम प्रदेश और आसपास सक्रिय नही रहने से वातावरण शुष्क हो गया है। इससे रात के तापमान में अब और गिरावट होने के आसार बढ़ गए हैं। मौसम विभाग के मुताबिक हवा का रुख उत्तरी बना रहने से दो-तीन दिन तक ठंड के तेवर तीखे बने रहने की संभावना है। इसके बाद मौसम के मिजाज में एक बार फिर बदलाव होगा और ठंड से कुछ राहत मिलेगी।   तीन दिसंबर के बाद मौसम में होगा बदलावरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि एक पश्चिमी विक्षोभ वर्तमान में ईरान पर है। इसके तीन दिसंबर के आसपास उत्तर भारत में पहुंचने की संभावना है। इसके अलावा बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इसके भी दो-तीन दिसंबर को चक्रवाती तूफान में परिवर्तित होकर तमिलनाडु के तट पर पहुंचने की संभावना है। इन दो सिस्टम के कारण हवाओं के रुख में बदलाव होगा। वातावरण में नमी बढ़ेगी। इससे न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी होने की संभावना है। इन सिस्टम के कमजोर पडऩे के बाद फिर ठंड की वापसी होगी।   मौसम विभाग द्वारा भोपाल, इंदौर सहित प्रदेश में ठंड का दीर्घकालिक पूर्वानुमान जारी किया गया। अगले चार महीने पश्चिमी मप्र के इंदौर, उज्जैन, भोपाल, ग्वालियर, चंबल व होशंगाबाद जिलों में रात का औसत तापमान सामान्य से एक से डेढ़ डिग्री कम रहेगा। दिन का तापमान सामान्य के आसपास रहेगा। ऐसे में इस बार इंदौर में रात में ठंडक ज्यादा बढऩे की संभावना है।    वहीं, पूर्वी मप्र में रात के तापमान में सामान्य से डेढ़ से दो डिग्री की गिरावट होगी। अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक रहेगा। इंदौर सहित पश्चिमी मप्र में इस बार पश्चिमी विक्षोभ ज्यादा प्रभावित करेगा। ऐसे में इन इलाकों में जनवरी व फरवरी में ओलावृष्टि की गतिविधियां तीन से चार बार हो सकती हैं। पूर्वानुमान के अनुसार प्रशांत महासागर में ला नीना का प्रभाव मध्यम रूप से बना रहेगा। इसके असर से पश्चिमी विक्षोभ ज्यादा आएंगे और तापमान में उतार-चढ़ाव भी देखने को मिलेगा।

Dakhal News

Dakhal News 30 November 2020


bhopal,Reduced wind speed, relief from cold, weather will change, after December 3

भोपाल। चक्रवाती तूफान निवार के समाप्त होने से प्रदेश में हवाओं की रफ्तार अब कम हो गई है। उधर, कोई वेदर सिस्टम प्रदेश और आसपास सक्रिय नही रहने से वातावरण शुष्क हो गया है। इससे रात के तापमान में अब और गिरावट होने के आसार बढ़ गए हैं। मौसम विभाग के मुताबिक हवा का रुख उत्तरी बना रहने से दो-तीन दिन तक ठंड के तेवर तीखे बने रहने की संभावना है। इसके बाद मौसम के मिजाज में एक बार फिर बदलाव होगा और ठंड से कुछ राहत मिलेगी।   तीन दिसंबर के बाद मौसम में होगा बदलावरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि एक पश्चिमी विक्षोभ वर्तमान में ईरान पर है। इसके तीन दिसंबर के आसपास उत्तर भारत में पहुंचने की संभावना है। इसके अलावा बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इसके भी दो-तीन दिसंबर को चक्रवाती तूफान में परिवर्तित होकर तमिलनाडु के तट पर पहुंचने की संभावना है। इन दो सिस्टम के कारण हवाओं के रुख में बदलाव होगा। वातावरण में नमी बढ़ेगी। इससे न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी होने की संभावना है। इन सिस्टम के कमजोर पडऩे के बाद फिर ठंड की वापसी होगी।   मौसम विभाग द्वारा भोपाल, इंदौर सहित प्रदेश में ठंड का दीर्घकालिक पूर्वानुमान जारी किया गया। अगले चार महीने पश्चिमी मप्र के इंदौर, उज्जैन, भोपाल, ग्वालियर, चंबल व होशंगाबाद जिलों में रात का औसत तापमान सामान्य से एक से डेढ़ डिग्री कम रहेगा। दिन का तापमान सामान्य के आसपास रहेगा। ऐसे में इस बार इंदौर में रात में ठंडक ज्यादा बढऩे की संभावना है।    वहीं, पूर्वी मप्र में रात के तापमान में सामान्य से डेढ़ से दो डिग्री की गिरावट होगी। अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक रहेगा। इंदौर सहित पश्चिमी मप्र में इस बार पश्चिमी विक्षोभ ज्यादा प्रभावित करेगा। ऐसे में इन इलाकों में जनवरी व फरवरी में ओलावृष्टि की गतिविधियां तीन से चार बार हो सकती हैं। पूर्वानुमान के अनुसार प्रशांत महासागर में ला नीना का प्रभाव मध्यम रूप से बना रहेगा। इसके असर से पश्चिमी विक्षोभ ज्यादा आएंगे और तापमान में उतार-चढ़ाव भी देखने को मिलेगा।

Dakhal News

Dakhal News 30 November 2020


bhopal, Police, take out , procession ,miscreants in MP, PHQ issued order

भोपाल। मध्यप्रदेश पुलिस अब बदमाशों का जुलूस नहीं निकाल पाएगी। पुलिस मुख्यालय (पीएचक्यू) की ओर से एक आदेश जारी कर इस पर रोक लगा दी गई है। मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की मांग पर पीएचक्यू ने इस संबंध में आदेश जारी किया है।   पुलिस मुख्यालय द्वारा शुक्रवार को जारी किए गए आदेश के मुताबिक अब आरोपी, संदेही या गिरफ्तार लोगों का जुलूस नहीं निकाला जाएगा। पुलिस मुख्यालय की तरफ यह फैसला मानव अधिकार कार्यकर्ताओं  की मांग पर लिया गया है। वहीं, नियमों का पालन हो सके, इसके लिए संबंधित थानों को भी आदेश जारी कर दिया गया है। सभी पुलिस अधीक्षकों को इस आदेश का कड़ाई से पालन करने के निर्देश जारी किए गए हैं।   गौरतलब है कि कुख्यात बदमाशों को लेकर लोगों के मन में होने वाले खौफ को दूर करने के लिए मप्र पुलिस ने उनका जुलूस निकालने की परंपरा शुरू की थी। पुलिस का मानना था कि कुख्यात बदमाशों के जुलूस निकालने से लोगों के बाच उनका भय खत्म होगा, हालांकि कई मानव अधिकार कार्यर्ताओं और सामाजिक संगठनों ने इस परंपरा पर आपत्ति जताई थी। जिसके बाद आखिरकार इस पर रोक लगाने का फैसला लिया गया है।

Dakhal News

Dakhal News 27 November 2020


bhopal, Prices of potatoes ,increased during , wedding season, onion also stopped

भोपाल। मध्यप्रदेश सरकार केरल की तर्ज पर राज्य में सब्जियों के दाम तय योजना बना रही है, लेकिन इन दिनों सब्जियों के दाम आसमान पर पहुंच रहे हैं। खासकर आलू और प्याज के दाम लगातार बढ़ते जा रहे हैं। सर्दियों के मौसम में 15-20 रुपये प्रति किलो के भाव से बिकने वाले आलू के दाम फुटकर बाजार में इन दिनों 50-55 रुपये प्रति किलो पहुंच गए हैं, जबकि प्याज भी 45-50 रुपये प्रति किलो के हिसाब से मिल रहा है। व्यापारियों का कहना है कि शादी का सीजन शुरू होने के कारण आलू-प्याज के दाम में इजाफा हुआ है।   दरअसल, देवउठनी एकादशी के बाद शादियों का सीजन शुरू हो गया है। ऐसे में आलू-प्याज की मांग भी बढ़ गई है, लेकिन स्थानीय स्तर पर आवक कम हो रही है। इसीलिए थोक बाजार में आलू और प्याज की कीमतें 40-45 रुपये प्रति किलो और फुटकर बाजार में 50-55 रुपये प्रति किलो पहुंच गई है। पिछले एक सप्ताह से आलू-प्याज की कीमतों में कुछ इजाफा हुआ है। एक सप्ताह पहले तक थोक भाव 35 रुपये किलो तक थे। इससे फुटकर बाजार में भी यह कम भाव में बिक रहा था।    आलू-प्याज व्यापारी रामू कुशवाह ने बताया कि वर्तमान में प्याज की स्थानीय स्तर पर आसपास के क्षेत्रों से आवक शुरू जरूर हुई है, लेकिन उतनी नहीं कि शहरों में पर्याप्त सप्लाई की जा सके। अधिकांश प्याज बाहर से मंगाई जा रही है, इसलिए प्याज महंगी हैं। उम्मीद है कि दिसम्बर की शुरुआत में नया प्याज लोगों को कुछ राहत देगा। प्याज की अच्छी आवक होने के बाद दाम में भी कमी आएगी।   इधर आलू के दाम पिछले दो माह से कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं। सब्जीमंडी से ठेला संचालक और दुकानदार मनमाने रेट में आलू और प्याज बेच रहे हैं। इससे आम आदमी की जेब पर साफ प्रभाव पड़ता दिखाई दे रहा है। ठेला संचालक गली-मोहल्ले में बढ़े हुए रेट पर सब्जी बेचकर दुगना मुनाफा कमा रहे हैं।

Dakhal News

Dakhal News 27 November 2020


indore,Number of infected ,with 556 new cases ,corona , crosses 40 thousand

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर जारी है। यहां एक सप्ताह से कोरोना संक्रमित मरीजों के साथ-साथ मृतकों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। इंदौर में बीते 24 घंटों में कोरोना के 556 नये मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 40 के पार पहुंच गई है। वहीं, मृतकों का संख्या 749 हो गई है। इंदौर में लगातार छठवें दिन कोरोना के 500 से अधिक नये मामले सामने आए हैं।    इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने शुक्रवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा गुरुवार देर रात 4615 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 556 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 40,552 हो गई है। वहीं, इंदौर में बीते 24 घंटों में कोरोना से तीन मरीजों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 749 हो गई है। हालांकि, यहां कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 35,505 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं, लेकिन लगातार अधिक संख्या में नये संक्रमित मिलने से यहां सक्रिय मरीजों की संख्या बढक़र 4268 हो गई है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है।    गौरतलब है कि नवम्बर के पहले सप्ताह में इंदौर में कोरोना के नये मरीजों की संख्या 100 से नीचे पहुंच गई थी, लेकिन एक सप्ताह बाद ही यह आंकड़ा पहले दो सौ के पार हुआ और अब यह संख्या पांच सौ के पार पहुंच गई है। अधिक संख्या में नये संक्रमित मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन में हडक़म्प का माहौल देखने को मिल रहा है तो वहीं लोगों में फिर कोरोना की दहशत फैल गई है।

Dakhal News

Dakhal News 27 November 2020


Indore, Auto driver dies ,tragic road accident

इंदौर।  शहर के मध्य एमजी रोड पर नावेल्टी मार्केट चौराहा के समीप गुरुवार की सुबह दर्दनाक हादसा हो गया। सड़क किनारे रिक्शा साफ कर रहे चालक को पीछे से आकर एक कार ने टक्कर मार दी। इसके बाद चालक के ऊपर खंबा भी आ गिरा, जिससे उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया।    घटना सुबह करीब 7 बजे एमजी रोड थाना क्षेत्र के जेल रोड चौराहा पर हुई। राकेश पिता राजकुमार चितले (40) निवासी द्वारकापुरी सड़क किनारे सवारी का इंतजार करते हुए अपनी रिक्शा एमपी 09 आर 6451 साफ कर रहा था। तभी पीछे से आ रही पोलो कार एमपी 09 सीजे 5270 ने रिक्शा को जोरदार टक्कर मार दी। रिक्शा को टक्कर मारने के बाद घबराहट में कार चालक ने अपनी कार खंबे में घुसा दी, जिससे खंबा भी उखड़कर सड़क पर पड़े रिक्शा चालक पर आ गिरा। रिक्शा चालक राकेश टक्कर के बाद खंबे के समीप ही गिरा था और खंबा भी उसी पर आ गिरा। जिसके बाद राकेश ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। हादसे की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने कार को जब्त कर लिया।  फिलहाल कार चालक फरार है। नंबर के आधार पर पुलिस जांच कर रही है। आरटीओ के अनुसार यह कार आनंद जायसवाल निवासी खजराना के नाम से रजिस्टर्ड बताई जा रही है। पहले रिक्शा चालक को केवल टक्कर लगी थी, लेकिन खंभा उसके ऊपर गिरने से उसे सिर में गहरी चोट लग गई।    हादसे की सूचना मिलते ही राकेश के परिजन भी एमवाय अस्पताल पहुंच गए। राकेश के काका के बेटे सुनील ने बताया कि राकेश के तीन बच्चे हैं। गत 1 नवंबर को ही बेटा एक साल का हुआ है। माता-पिता भी राकेश के साथ ही रहते थे। वह घर में कमाने वाले इकलौता था। वह रोज सुबह करीब पांच बजे एमजी रोड के जेलरोड चौराहे पर बने स्टैंड पर आ जाता था। आज सुबह भी वह समय पर पहुंच गया और अपनी आटो रिक्शा साफ कर रहा था, तभी हादसा हो गया। 

Dakhal News

Dakhal News 26 November 2020


Indore,Bulldozer of Nigam again, three goons houses, including Aslam Mota

इंदौर। अपराधियों के मकान और अवैध निर्माणों को जमींदोज करने का अभियान गुरुवार सुबह से एक बार फिर शुरू कर दिया गया। इस अभियान के अंतर्गत गुरुवार सुबह निगम की टीम ने कुख्यात असलम मोटा समेत 3 गुंडों के चार मकान जमींदोज कर दिए। यह कार्रवाई चंदन नगर के साथ गांधीनगर में की गई।    अपराधियों की आर्थिक कमर तोड़ने और उनका रसूख खत्म करने के लिए डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र के द्वारा नगर निगम और प्रशासन के सहयोग से यह अभियान चलाया जा रहा है। पिछले 3 दिनों से कार्रवाई का सिलसिला थमा हुआ था। लेकिन गुरुवार सुबह निगम ने एक बार फिर इस कार्रवाई की शुरुआत कर दी। इस बार शुरुआत चंदन नगर से की गई। पुलिस के द्वारा दी गई सूची के अनुसार अपराधी असलम उर्फ मोंटा के मकान को जमींदोज करने के लिए सबसे पहले निगम की टीम पहुंची। नगर निगम के मुख्यालय से रिमूवल की टीम के साथ निगम के जोन क्रमांक 16 के अधिकारी भी मौजूद थे। पुलिस चंदननगर को इस कार्रवाई की सूचना पहले से ही दे दी गई थी जिसके परिणाम स्वरूप पुलिस के द्वारा कार्रवाई के लिए बल तैयार रखा गया था। निगम ने पुलिस बल की मौजूदगी में इस कार्रवाई को अंजाम दिया और चंद मिनटों में ही इस अपराधी का मकान ध्वस्त कर दिया।    इस कार्रवाई के बाद निगम की टीम ने दूसरी कार्रवाई गांधीनगर के पास सहयोग नगर में की । यह स्थान भी नगर निगम के जोन क्रमांक 16 में ही आता है । इस स्थान पर नगर निगम के द्वारा गुंडा अभियान के तहत संजू काना राठौर निवासी ग़ोरधन पैलेस के मकान का रिमूवल किया गया। यह मकान 1500 वर्ग फीट क्षेत्र में बना हुआ था । इस मकान को तोडऩे की कार्रवाई करने में भी निगम के अधिकारियों को ज्यादा वक्त नहीं लगा। उन्होंने बहुत आसानी के साथ इस मकान को जेसीबी के पंजों के वार से ढेर कर दिया।    इसके बाद निगम की टीम तीसरी कार्रवाई को अंजाम देने के लिए गांधीनगर में पहुंच गई। वहां गांधीनगर के पास परशुराम मार्ग के पीछे कस्तूरबा नगर नामक एक अवैध कॉलोनी स्थित है। इस अवैध कॉलोनी में निगम की टीम ने पहुंचकर अपनी कार्रवाई को शुरू किया। इस स्थान पर निगम के द्वारा अपराधी राजकुमार खटीक के मकान को तोडऩे का काम शुरू किया गया। मौके पर पहुंचे निगम के अधिकारियों ने बताया कि इस कॉलोनी में खटीक के दो मकान है। दोनों मकान 15 बाय 40 के प्लाट पर बनाए गए हैं। यह दोनों की मकान पक्के बने हुए थे निगम के द्वारा मौके पर भेजी गई पोकलेन मशीन ने एक झटके के साथ इन मकानों को तोड़कर ढेर करना शुरू कर दिया।   महिला ने किया विरोध, आत्मदाह का प्रयास  गांधीनगर में जब टीम कार्रवाई करने पहुंची तो वहां कार्रवाई को रुकवाने के लिए एक महिला ने आत्मदाह करने की कोशिश की। इस कोशिश को पुलिस ने नाकाम कर दिया और महिला के हाथ से केरोसिन छीन लिया। निगम की टीम गांधीनगर क्षेत्र में गुंडे राजकुमार के दो मकान तोड़ने के लिए पहुंची थी। इस टीम के द्वारा जब कार्रवाई को शुरू किया जाना था उसी समय राजकुमार के परिवार की एक महिला सामने आ गई। इस महिला ने कार्रवाई का विरोध किया और उसने जेसीबी के सामने आकर कार्रवाई को रुकवाने की कोशिश की। इसमें असफल रहने पर महिला ने अपने हाथों में केरोसिन ले लिया और वह आकर सामने खड़ी हो गई। उसने निगम के अधिकारियों को चेतावनी दी कि यदि मकान को तोडऩे की कोशिश की गई तो वह खुद पर केरोसिन डालकर आग लगा लेगी, वह खुद मर जाएगी। यह स्थिति देखकर नगर निगम के अधिकारियों के हाथ पैर फूल गए। ऐसी नाजुक हालत में पुलिस ने तत्काल मोर्चा संभाला। महिला पुलिस कर्मियों की मदद से पुलिस के द्वारा इस महिला के हाथ से केरोसिन छीना गया और उसे अपनी गाड़ी में बिठा लिया गया। इस महिला के द्वारा मचाए जा रहे बवाल को खत्म करने के बाद इस कार्रवाई को अंजाम दिया जा सका।

Dakhal News

Dakhal News 26 November 2020


bhopal, After snowfall, mountains of North India, increase,Madhya Pradesh

भोपाल। पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से एक बार फिर उत्तर भारत के पड़ाड़ों पर जबरदस्त बर्फबारी शुरू हो गई है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक बंगाल की खाड़ी से उठा तूफान 'निवार' शुक्रवार को कमजोर पड़ जाएगा। इसके बाद हवाओं का रुख उत्तरी होते ही प्रदेश में सर्द हवाओं का दखल बढ़ जाएगा। इससे राजधानी भोपाल सहित पूरे प्रदेश में ठंड के तेवर तीखे होने लगेंगे। गुरुवार को सुबह राजधानी भोपाल में पिछले दिनों के मुकाबले ज्यादा ठंड महसूस हुई।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने गुरुवार को जानकारी देते हुए बताया कि दक्षिण-पश्चिम राजस्थान पर बने प्रेरित चक्रवात के कारण दो दिन से हवाओं का रुख बदलकर पूर्वी हो गया था। हवा में नमी बढऩे से दिन और रात के तापमान में बढ़ोतरी होने लगी थी। बुधवार को प्रेरित चक्रवात उत्तर-पश्चिमी राजस्थान की तरफ शिफ्ट हो गया है। इससे हवा का रुख अब दक्षिण-पूर्वी हो गया है। उधर बंगाल की खाड़ी से उठे 'निवार' तूफान के कारण आ रही नमी से पूर्वी मप्र और विदर्भ से लगे मप्र के क्षेत्रों में गुरुवार को बारिश होने की संभावना है। हालांकि शुक्रवार को तूफान के कमजोर पडऩे के आसार हैं। इसके बाद हवाओं का रुख बदलकर उत्तरी होने की संभावना है।   वर्तमान में पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से उत्तर भारत में लगातार बर्फबारी जारी है। इससे वहां के पहाड़ी इलाके कड़ाके की सर्दी की चपेट में हैं। उधर से चलने वाली सर्द हवाओं का दखल बढ़ते ही मप्र में दिन और रात के तापमान में तेजी से गिरावट होने लगेगी। इस माह के अंत तक प्रदेश में कहीं-कहीं रात का तापमान छह डिग्री पर पहुंचने की संभावना है।

Dakhal News

Dakhal News 26 November 2020


bhopal, After snowfall, mountains of North India, increase,Madhya Pradesh

भोपाल। पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से एक बार फिर उत्तर भारत के पड़ाड़ों पर जबरदस्त बर्फबारी शुरू हो गई है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक बंगाल की खाड़ी से उठा तूफान 'निवार' शुक्रवार को कमजोर पड़ जाएगा। इसके बाद हवाओं का रुख उत्तरी होते ही प्रदेश में सर्द हवाओं का दखल बढ़ जाएगा। इससे राजधानी भोपाल सहित पूरे प्रदेश में ठंड के तेवर तीखे होने लगेंगे। गुरुवार को सुबह राजधानी भोपाल में पिछले दिनों के मुकाबले ज्यादा ठंड महसूस हुई।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने गुरुवार को जानकारी देते हुए बताया कि दक्षिण-पश्चिम राजस्थान पर बने प्रेरित चक्रवात के कारण दो दिन से हवाओं का रुख बदलकर पूर्वी हो गया था। हवा में नमी बढऩे से दिन और रात के तापमान में बढ़ोतरी होने लगी थी। बुधवार को प्रेरित चक्रवात उत्तर-पश्चिमी राजस्थान की तरफ शिफ्ट हो गया है। इससे हवा का रुख अब दक्षिण-पूर्वी हो गया है। उधर बंगाल की खाड़ी से उठे 'निवार' तूफान के कारण आ रही नमी से पूर्वी मप्र और विदर्भ से लगे मप्र के क्षेत्रों में गुरुवार को बारिश होने की संभावना है। हालांकि शुक्रवार को तूफान के कमजोर पडऩे के आसार हैं। इसके बाद हवाओं का रुख बदलकर उत्तरी होने की संभावना है।   वर्तमान में पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से उत्तर भारत में लगातार बर्फबारी जारी है। इससे वहां के पहाड़ी इलाके कड़ाके की सर्दी की चपेट में हैं। उधर से चलने वाली सर्द हवाओं का दखल बढ़ते ही मप्र में दिन और रात के तापमान में तेजी से गिरावट होने लगेगी। इस माह के अंत तक प्रदेश में कहीं-कहीं रात का तापमान छह डिग्री पर पहुंचने की संभावना है।

Dakhal News

Dakhal News 26 November 2020


bhopal,On the lines,Kerala, MSP of vegetables,decided in MP

भोपाल। मध्यप्रदेश सरकार ने केरल की तर्ज पर अब प्रदेश में सब्जियों और फलों का न्यूनतम दाम तय करने की तैयारियां शुरू कर दी हैं। यहां भी सब्जियों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) लागू किये जाएंगे। इसके लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विभागीय अधिकारियों को समर्थन मूल्य निर्धारित कर उसकी रिपोर्ट तैयार करने के निर्देश दिये हैं।   दरअसल, मुख्यमंत्री ने सोमवार को मंत्रालय में सब्जियों के दाम के संबंध में उद्यानिकी विभाग की उच्च स्तरीय बैठक ली थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि हमारा किसान दिन-रात पसीना बहाकर उत्पादन करता है परन्तु अधिक मुनाफा बिचौलिए ले जाते हैं। ऐसी बाजार व्यवस्था विकसित करें, जिससे किसानों को उनकी उपज का सही दाम मिले। सब्जियों के थोक व खुदरा मूल्य में अधिक अंतर नहीं होना चाहिए। सब्जियों के समर्थन मूल्य निर्धारित किए जाने के संबंध में रिपोर्ट तैयार कर दो दिन में उनके समक्ष प्रस्तुत की जाए।   बैठक में बताया गया कि केरल में सब्जियों के न्यूनतम समर्थन मूल्य घोषित किए जाने की व्यवस्था है। केरल में इसके लिए किसानों का पंजीयन किया जा रहा है। मुख्य सचिव बैंस ने कहा कि प्रदेश में सब्जियों आदि के परिवहन पर कहीं भी किसी प्रकार की रोक नहीं है। किसान आसानी से किसी भी मंडी अथवा स्थान पर अपनी फसलें लाना-ले जाना कर सकते हैं। बता दें कि केरल सरकार ने हाल ही में कुल 21 खाने-पीने की चीजों के लिए एमएसपी का निर्धारण किया है। इसमें 16 किस्म की सब्जियां भी शामिल हैं।    अब मध्यप्रदेश में भी केरल की तरह सब्जियों के एमएसपी तय करने की तैयारियां शुरू हो गई हैं। इससे किसानों को फायदा मिलेगा। इस संबंध में प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल का कहना है कि अनाज के समर्थन मूल्य के बाद अब हम सब्जियों पर न्यूनतम दाम तय करने जा रहे हैं। इसमें किसानों को उनकी लागत का कम से कम 50 फीसदी तक फायदा मिलेगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने का लक्ष्य रखा है। इसी लक्ष्य के तहत हम सब्जियां और फलों को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदने की योजना पर काम कर रहे हैं।

Dakhal News

Dakhal News 24 November 2020


bhopal,On the lines,Kerala, MSP of vegetables,decided in MP

भोपाल। मध्यप्रदेश सरकार ने केरल की तर्ज पर अब प्रदेश में सब्जियों और फलों का न्यूनतम दाम तय करने की तैयारियां शुरू कर दी हैं। यहां भी सब्जियों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) लागू किये जाएंगे। इसके लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विभागीय अधिकारियों को समर्थन मूल्य निर्धारित कर उसकी रिपोर्ट तैयार करने के निर्देश दिये हैं।   दरअसल, मुख्यमंत्री ने सोमवार को मंत्रालय में सब्जियों के दाम के संबंध में उद्यानिकी विभाग की उच्च स्तरीय बैठक ली थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि हमारा किसान दिन-रात पसीना बहाकर उत्पादन करता है परन्तु अधिक मुनाफा बिचौलिए ले जाते हैं। ऐसी बाजार व्यवस्था विकसित करें, जिससे किसानों को उनकी उपज का सही दाम मिले। सब्जियों के थोक व खुदरा मूल्य में अधिक अंतर नहीं होना चाहिए। सब्जियों के समर्थन मूल्य निर्धारित किए जाने के संबंध में रिपोर्ट तैयार कर दो दिन में उनके समक्ष प्रस्तुत की जाए।   बैठक में बताया गया कि केरल में सब्जियों के न्यूनतम समर्थन मूल्य घोषित किए जाने की व्यवस्था है। केरल में इसके लिए किसानों का पंजीयन किया जा रहा है। मुख्य सचिव बैंस ने कहा कि प्रदेश में सब्जियों आदि के परिवहन पर कहीं भी किसी प्रकार की रोक नहीं है। किसान आसानी से किसी भी मंडी अथवा स्थान पर अपनी फसलें लाना-ले जाना कर सकते हैं। बता दें कि केरल सरकार ने हाल ही में कुल 21 खाने-पीने की चीजों के लिए एमएसपी का निर्धारण किया है। इसमें 16 किस्म की सब्जियां भी शामिल हैं।    अब मध्यप्रदेश में भी केरल की तरह सब्जियों के एमएसपी तय करने की तैयारियां शुरू हो गई हैं। इससे किसानों को फायदा मिलेगा। इस संबंध में प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल का कहना है कि अनाज के समर्थन मूल्य के बाद अब हम सब्जियों पर न्यूनतम दाम तय करने जा रहे हैं। इसमें किसानों को उनकी लागत का कम से कम 50 फीसदी तक फायदा मिलेगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने का लक्ष्य रखा है। इसी लक्ष्य के तहत हम सब्जियां और फलों को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदने की योजना पर काम कर रहे हैं।

Dakhal News

Dakhal News 24 November 2020


Anuppur, 9.5 kg hemp, recovered from , jeep overturned, field

अनूपपुर। चौकी फुनगा अंतर्गत पयारी-बोकडहाई बस स्टैंड के पास सोमवार-मंगलवार की रात करीब 1.00 बजे एम्बुलेंस और तेज रफ्तार की जीप के बीच टक्कर हो गई। जिसके बाद जीप पास के खेत में जाकर पलट गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने पलटी हुई जीप से 9.5 किलोग्राम गांजा जब्त किया। वहीं, हादसे में घायल हुए जीप सवार युवकों को अस्पताल भी पहुंचाया। चौकी प्रभारी हरिशंकर शुक्ला ने बताया कि चौकी फुनगा अंतर्गत पयारी-बोकडहाई बस स्टैंड के पास सोमवार-मंगलवार की रात 1 बजे एंबुलेंस से टकराकर एक जीप पलट गई। हादसे में जीप में सवार दो युवक राजेश पनिका निवासी छुलकारी और मोहित पनिका निवासी मौहरी के पैर फैक्चर हो गए। वहीं टक्कर की आवाज सुनकर आसपास के ग्रामीण मौके पर पहुंचे। उन्होंने देखा कि दोनों घायल युवक खेत में पड़े थे। उनके आसपास गांजे के पॉकेट और कुछ खुला हुआ गांजा बिखरा पड़ा था। ग्रामीणों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को जिला चिकित्सालय में इलाज के लिए भेजा, वहीं जीप को जब्त कर चौकी परिसर ले आई। पुलिस द्वारा जब्त किए गए गांजे का वजन  9.5 किलो पाया गया। जिसकी अनुमानित कीमत लगभग 26 हजार से अधिक की बताई जा रही है। दोनों घायलों को प्राथमिक उपचार के बाद जबलपुर रेफर कर दिया गया है। वहीं पुलिस मामले की कार्रवाई कर अपराध पंजीबद्ध कर रही है।

Dakhal News

Dakhal News 24 November 2020


bhopal,Madhya Pradesh weather, chill increase state, cold wave,26 November

भोपाल। मध्य प्रदेश में ठिठुरन भरी सर्दी की शुरूआत हो चुकी है। ठंडी हवा चलने के साथ ही न्यूनतम तापमान में गिरावट आई है। मौसम विभाग के अनुसार 26 नवंबर के बाद प्रदेश में शीतलहर शुरू हो जाएगी। वहीं सोमवार को ग्वालियर में सबसे ठंडी सुबह रिकॉर्ड की गई। जहां तापमान 7.9 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम विभाग के मुताबिक संभाग में भी दो-तीन दिन तक कोहरा नहीं पड़ेगा।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने जानकारी देते हुए बताया कि उत्तर से आने वाली ठंडी हवा से तापमान में गिरावट आई है लेकिन रविवार को हवाओं की दिशा फिर से दक्षिण-पूर्वी हो गई है। जिसका सबसे ज्यादा असर राजधानी भोपाल पर पड़ा है। मौसम वैज्ञानिकों की माने नवंबर के आखिरी तक में जबलपुर, होशंगाबाद, उज्जैन और इंदौर संभाग में तापमान बढऩे की संभावना है। जिसके बाद नवंबर महीने के आखिरी में हल्की ठंड की बजाए शीतलहर शुरू हो जाएगी। प्रदेश में 26 नवंबर से पहले दो-तीन दिन तक थोड़ी गर्मी रहेगी। वही 26 से 27 नवंबर से पश्चिमी विक्षोभ के आने से ठंड की दस्तक बढ़ेगी। इसके साथ ही दक्षिण पश्चिमी अरब सागर में चक्रवात तूफान के सोमालिया तट से टकराने की भी संभावना है। जिसका असर प्रदेश की ठंड में महसूस किया जा सकता है।   इसके अलावा ग्वालियर संभाग में भी ठंड का असर अब दिखने लगा है। यहां लगातार तापमान में कमी आ रही है। रात से ज्यादा दिन के तापमान में फर्क महसूस किया जा रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक वाले संभाग में भी दो-तीन दिन तक कोहरा नहीं पड़ेगा। हालांकि रात के वक्त न्यूनतम तापमान में कमी देखी जाएगी।  

Dakhal News

Dakhal News 24 November 2020


bhopal,Madhya Pradesh weather, chill increase state, cold wave,26 November

भोपाल। मध्य प्रदेश में ठिठुरन भरी सर्दी की शुरूआत हो चुकी है। ठंडी हवा चलने के साथ ही न्यूनतम तापमान में गिरावट आई है। मौसम विभाग के अनुसार 26 नवंबर के बाद प्रदेश में शीतलहर शुरू हो जाएगी। वहीं सोमवार को ग्वालियर में सबसे ठंडी सुबह रिकॉर्ड की गई। जहां तापमान 7.9 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम विभाग के मुताबिक संभाग में भी दो-तीन दिन तक कोहरा नहीं पड़ेगा।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने जानकारी देते हुए बताया कि उत्तर से आने वाली ठंडी हवा से तापमान में गिरावट आई है लेकिन रविवार को हवाओं की दिशा फिर से दक्षिण-पूर्वी हो गई है। जिसका सबसे ज्यादा असर राजधानी भोपाल पर पड़ा है। मौसम वैज्ञानिकों की माने नवंबर के आखिरी तक में जबलपुर, होशंगाबाद, उज्जैन और इंदौर संभाग में तापमान बढऩे की संभावना है। जिसके बाद नवंबर महीने के आखिरी में हल्की ठंड की बजाए शीतलहर शुरू हो जाएगी। प्रदेश में 26 नवंबर से पहले दो-तीन दिन तक थोड़ी गर्मी रहेगी। वही 26 से 27 नवंबर से पश्चिमी विक्षोभ के आने से ठंड की दस्तक बढ़ेगी। इसके साथ ही दक्षिण पश्चिमी अरब सागर में चक्रवात तूफान के सोमालिया तट से टकराने की भी संभावना है। जिसका असर प्रदेश की ठंड में महसूस किया जा सकता है।   इसके अलावा ग्वालियर संभाग में भी ठंड का असर अब दिखने लगा है। यहां लगातार तापमान में कमी आ रही है। रात से ज्यादा दिन के तापमान में फर्क महसूस किया जा रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक वाले संभाग में भी दो-तीन दिन तक कोहरा नहीं पड़ेगा। हालांकि रात के वक्त न्यूनतम तापमान में कमी देखी जाएगी।  

Dakhal News

Dakhal News 24 November 2020


Indore, Municipal Corporation, team breaks down ,goon Ravi Kala , half an hour

इंदौर। शहर के विभिन्न हिस्सों में गुंडों और माफियाओं के अवैध निर्माणों पर पुलिस, प्रशासन तथा नगरनिगम की कार्रवाई जारी है। इसी क्रम में सोमवार सुबह नगरनिगम की रिमूवल टीम साउथ हरसिद्धि पहुंची और गुंडे रवि काला के अवैध निर्माण को महज आधे घंटे में तोड़ दिया।    रावजी बाजार क्षेत्र के गुंडे रवि काला का 26/2 साउथ हरसिद्धि पर लकड़ी व पतरे का मकान बना हुआ था। इसमें उसके परिवार के कुछ लोग रहते थे। नगर निगम प्रशासन ने पुलिस की मदद से रविवार रात को ही मकान को खाली करवा लिया था। निगम की रिमूवल टीम सोमवार सुबह नौ बजे अवैध निर्माण को तोड़ने पहुंची। मौके पर निगम की रिमूवल अधिकारी लता अग्रवाल, तहसीलदार सुदीप मीणा व भवन अधिकारी पीआर आरोलिया मौजूद थे। रिमूवल टीम के 40 कर्मचारी और एक जेसीबी ने आधे घंटे में गुंडे के अवैध मकान को तोड़ दिया। गौरतलब है कि गुंडों और माफियाओं के खिलाफ चल रही मुहिम के दौरान रविवार को नगर निगम द्वारा खजराना क्षेत्र के चार सूचीबद्ध गुंडों के अवैध निर्माण को तोड़ा गया था।

Dakhal News

Dakhal News 23 November 2020


indore, record 586, new cases , corona,three people also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर जारी है। यहां बीते 24 घंटों में कोरोना के रिकॉर्ड 586 नये मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 38,247 और मृतकों का संख्या 735 हो गई है। इंदौर में लगातार दूसरे दिन कोरोना के रिकॉर्ड नये मामले सामने आए हैं। यहां इससे पहले यहां एक अक्टूबर को एक दिन में सर्वाधिक 495 मरीज मिले थे। इसके बाद यहां एक दिन पहले यह आंकड़ा 500 के पार पहुंच गया। गत दिवस इंदौर में एक दिन में सर्वाधिक 546 नये संक्रमित मरीज मिले थे, लेकिन अगले ही यह रिकॉर्ड भी टूट गया। अब यहां एक दिन में सर्वाधिक 586 नये संक्रमित मिले हैं।   इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने सोमवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा रविवार देर रात 5651 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 586 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 38,247 हो गई है। वहीं, इंदौर में बीते 24 घंटों में कोरोना से तीन मरीजों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 735 हो गई है। हालांकि, यहां कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 34,424 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं, लेकिन लगातार अधिक संख्या में नये संक्रमित मिलने से यहां सक्रिय मरीजों की संख्या बढक़र 3088 हो गई है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है।    गौरतलब है कि नवम्बर के पहले सप्ताह में इंदौर में कोरोना के नये मरीजों की संख्या 100 से नीचे पहुंच गई थी, लेकिन एक सप्ताह में यह आंकड़ा पहले दो सौ के पार हुआ और तीन से यह आंकड़ा तेजी से बढ़ते हुए पांच सौ के पार पहुंच गया। इतनी अधिक संख्या में नये संक्रमित मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन में हडकम्प का माहौल देखने को मिल रहा है तो वहीं लोगों में फिर कोरोना की दहशत फैल गई है।

Dakhal News

Dakhal News 23 November 2020


Bhopal, minimum temperature, reached 10 degree, Sunday coldest night, season

भोपाल।  मध्य प्रदेश में ठिठुरन भरी सर्दी का एहसास होने लगा है। हवा का रुख उत्तरी होने के चलते राजधानी भोपाल समेत कई जिलों में ठंड बढ़ गई है। मौसम विभाग के मुताबिक, आगामी दो दिनों तक ठंड अपने तीखे तेवर दिखा सकती है। प्रदेश में रात का सबसे कम तापमान नौगांव में 7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। प्रदेश के 13 जिलों में न्यूनतम तापमान 7 से 10 डिग्री के बीच रहा। उधर राजधानी में रविवार रात का तापमान दस साल में सबसे ठंडा रहा। भोपाल में अधिकतम तापमान 25.0 डिग्री रिकॉर्ड किया गया, जो सामान्य से चार डिग्री कम था, वहीं न्यूनतम तापमान की बात करें तो, 10.5 डिग्री दर्ज किया गया।   इसलिए बढ़ी ठंडवरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अयज शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि शुक्रवार को उत्तरी महाराष्ट्र पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ था। दक्षिण-पूर्वी मध्य प्रदेश से बिहार तक एक द्रोणिका लाइन बनी हुई थी। इस वजह से वातावरण में नमी आने के कारण प्रदेश में बादल बने हुए थे। इस दौरान कई क्षेत्रों में बारिश भी हुई। फिलहाल, प्रदेशभर में ये दोनों ही सिस्टम समाप्त हो चुके हैं। इसके अतिरिक्त जम्मू-कश्मीर पर बना पश्चिमी विक्षोभ भी आगे बढ़ गया है। इससे हवा का रुख उत्तरी और उत्तर-पूर्वी हो गया है। पश्चिमी विक्षोभ के असर से उत्तर भारत के पहाड़ों में हाल ही में जबरदस्त बर्फबारी हुई है। इस वजह से वहां से आने वाली सर्द हवाओं ने पूरे प्रदेश में सिहरन बढ़ा दी है।   फिर बदलेगा मौसम अभी दो दिन तक हवा का रुख उत्तरी और उत्तर-पूर्वी बना रहने की उम्मीद है। इससे ठंड के तेवर दो दिन में और तीखे हो सकते हैं। वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ अफगानिस्तान के पास बना हुआ है। इस सिस्टम के दो दिन बाद उत्तर भारत पहुंचने के आसार हैं। इसके बाद हवा का रुख बदलने से एक बार फिर बादल छा सकते हैं। इससे रात का तापमान बढेगा।  

Dakhal News

Dakhal News 23 November 2020


Indore, Bulldozer fired , houses , Manohar Verma ,attacked , BJP leader Nema

इंदौर। गुंडों के अवैध निर्माणों पर पुलिस और नगरनिगम की कार्रवाई जारी है। इसी कड़ी में शुक्रवार सुबह नगर निगम की टीम ने भाजपा नेता गोपीकृष्ण नेमा के घर पर हमला करवाने वाले मनोहर वर्मा के मकानों पर कार्रवाई की। नगर निगम के दस्ते ने दोनों घरों को जमींदोज कर दिया।    पुलिस-प्रशासन ने नगर निगम के साथ मिलकर मनोहर वर्मा के हाथीपाला मेन रोड और मालीपुरा मेन रोड स्थित दो मकानों को शुक्रवार सुबह जमींदोज कर दिया। मनोहर वर्मा का नाम भाजपा नेता नेमा के घर पर 15 नवंबर को हुए हमले में सामने आया है। वर्मा अभी पुलिस की गिरफ्त से दूर है। निगम टीम ने जेसीबी और बुलडोजर की मदद से मनोहर वर्मा और लकी वर्मा के अवैध मकानों को ध्वस्त किया। दोनों के खिलाफ हत्या, छेड़छाड़, लूट और बलवा जैसे करीब एक दर्जन अपराध दर्ज हैं।    नगर निगम के अपर आयुक्त देवेंद्र सिंह ने बताया कि मनोहर वर्मा पर कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। पुलिस-प्रशासन के सहयोग से नगर निगम अतिक्रमण को हटाने की कार्रवाई कर रहा है। हमें पुलिस से सूची मिली थी, जिसमें मनोहर वर्मा का भी नाम है। वह कई मामलों में अपराधी है और इसने क्षेत्र में अवैध निर्माण कर रखा है। वहीं, डीआईजी का कहना है कि पुलिस ने निगम को 15 बड़े अपराधियों पर कार्रवाई के लिए सूची सौंपी थी।

Dakhal News

Dakhal News 20 November 2020


Indore, Bulldozer fired , houses , Manohar Verma ,attacked , BJP leader Nema

इंदौर। गुंडों के अवैध निर्माणों पर पुलिस और नगरनिगम की कार्रवाई जारी है। इसी कड़ी में शुक्रवार सुबह नगर निगम की टीम ने भाजपा नेता गोपीकृष्ण नेमा के घर पर हमला करवाने वाले मनोहर वर्मा के मकानों पर कार्रवाई की। नगर निगम के दस्ते ने दोनों घरों को जमींदोज कर दिया।    पुलिस-प्रशासन ने नगर निगम के साथ मिलकर मनोहर वर्मा के हाथीपाला मेन रोड और मालीपुरा मेन रोड स्थित दो मकानों को शुक्रवार सुबह जमींदोज कर दिया। मनोहर वर्मा का नाम भाजपा नेता नेमा के घर पर 15 नवंबर को हुए हमले में सामने आया है। वर्मा अभी पुलिस की गिरफ्त से दूर है। निगम टीम ने जेसीबी और बुलडोजर की मदद से मनोहर वर्मा और लकी वर्मा के अवैध मकानों को ध्वस्त किया। दोनों के खिलाफ हत्या, छेड़छाड़, लूट और बलवा जैसे करीब एक दर्जन अपराध दर्ज हैं।    नगर निगम के अपर आयुक्त देवेंद्र सिंह ने बताया कि मनोहर वर्मा पर कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। पुलिस-प्रशासन के सहयोग से नगर निगम अतिक्रमण को हटाने की कार्रवाई कर रहा है। हमें पुलिस से सूची मिली थी, जिसमें मनोहर वर्मा का भी नाम है। वह कई मामलों में अपराधी है और इसने क्षेत्र में अवैध निर्माण कर रखा है। वहीं, डीआईजी का कहना है कि पुलिस ने निगम को 15 बड़े अपराधियों पर कार्रवाई के लिए सूची सौंपी थी।

Dakhal News

Dakhal News 20 November 2020


Bhopal, District administration ,took action against ,those who did, not apply masks

भोपाल। कलेक्टर अविनाश लवानिया के निर्देश पर जिले के सभी एसडीएम ने शुक्रवार को अपने-अपने क्षेत्रों में मास्क पहनों अभियान का निरीक्षण किया, इसके अंतर्गत विभिन्न दुकानों, चौराहों, मार्केट में लगातार निरीक्षण किया गया, मास्क नहीं लगाए लोगों को मास्क लगाने के लिए समझाईश दी गई। इसके साथ ही जिन लोगों द्वारा मास्क नहीं लगाया गया था या जिनके पास मास्क नहीं था उनके चालान काटे गए हैं।    मास्क न पहनने पर कोलार एसडीएम राजेश गुप्ता के मार्गदर्शन पर सख्त कार्यवाही कोलार रोड़, बीमाकुंज मार्केट में की गई। टीमों द्वारा आकस्मिक निरीक्षण किया गया जिनमें लोगों के चालान बनाकर जुर्माना वसूलने की कार्रवाई की गई है। जिन लोगों द्वारा मास्क नहीं लगाया गया था उन्हें मास्क लगाने की हिदायत देने के साथ ही 100-100 रुपये का चालान भी किया गया है इसके साथ ही दुकानदारों को भी सोशल फिजिकल डिस्टेंस का पालन कराने के साथ ही बिना मास्क वाले ग्राहकों को सामान नहीं बेचने और खुद भी मास्क लगाने के निर्देश दिए गए है।    कलेक्टर लवानिया ने सभी एसडीएम को निर्देश जारी किए हैं कि अपने-अपने क्षेत्रों में लगातार भ्रमण करें उन्हें जो लोग बिना मास्क के घूमते मिलें उनके विरूद्ध चालानी कार्रवाई करें। दुकानदार जो बिना मास्क और कोविड-१९ के प्रोटोकाल का उल्लघंन कर  सामान बेच रहे हैं या उनके कर्मचारी भी बिना मास्क के काम कर रहे हैं तो उनके विरुद्ध भी दुकान सील करने की कार्रवाई की जाए।    उन्होंने कहा कि सभी एसडीएम और तहसीलदार अपने क्षेत्रों में लगातार विशेष अभियान चलाकर लोगों को मास्क लगाना अनिवार्य करें। मास्क नहीं लगाने वालो से जुर्माने के साथ सोशल अवेरनेश कार्य भी कराए। इसके साथ ही लापरवाह लोगों को समझाईश भी दी जाए। लगातार बिना मास्क के घूमते पाए जाने पर लोक स्वास्थ संरक्षण के अंतर्गत कार्रवाई भी करें। इसके साथ ही लोगों को बताए कि कोई भी व्यक्ति बिना काम के घर से ना निकले, किसी भी दुकान में आने वालों से फिजिकल डिस्टेंस का पालन कराए और सैनिटेशन की व्यवस्था करने के संबंध में भी दुकानदारों को हिदायत दी जाए।

Dakhal News

Dakhal News 20 November 2020


Indore: Beloved Mian, house Nestanabud, Sambhar horn found

इंदौर। बच्चियों के यौन शोषण के आरोपित प्यारे मियां के लालाराम नगर स्थित मकान को शुक्रवार सुबह पुलिस और नगर निगम की टीम ने जमींदोज कर दिया। निगम के कर्मचारी जब सामान हटाने के लिए कमरों में पहुंचे, तो वहां का नजारा देखकर दंग रह गये। यहां पर बार में एक से बढ़कर एक मंहगी विदेशी शराब सजी हुई थीं। इसके अलावा आलमारी से आपत्तिजनक वस्तुएं भी मिलीं। टीम जब बंगले की छत पर पहुंची तो यहां पर लग्जरी पेंट हाउस बना था, जहां पर ऐशो आराम की सभी वस्तुएं मौजूद थीं। पुलिस ने सभी वस्तुओं को बाहर निकालकर घर को जेसीबी और पोकलेन की मदद से अवैध निर्माण को ध्वस्त करवा दिया।   नगर निगम उपायुक्त लता अग्रवाल ने बताया कि प्यारे मियां के लालाराम नगर स्थित आलीशान मकान को तोड़ा गया है। इस तीन मंजिला मकान की छत पर प्यारे ने पेंट हाउस बना रखा था, जिसमें आलीशान बीयर बार था। महंगी विदेशी शराब की कई बोतलों के साथ ही आपत्तिजनक सामग्री, शक्तिवर्धक दवाएं और सांभर के सींग  भी यहां से मिले हैं।   निगम के जोनल अधिकारी नागेंद्र सिंह भदौरिया ने बताया कि प्यारे का मकान नक्शे के विपरीत बना हुआ था। यहां से एक तलवार भी मिली है। पुलिस को पता चला था कि पलासिया के लालाराम नगर स्थित अपने बंगले पर प्यारे मियां कई नाबालिग लड़कियों को भोपाल से लेकर आ चुका है। नाबालिग लड़कियों को बंगले पर लाने के बाद उन पर दबाव बनाकर उनसे दुष्कर्म करते थे। बालिकाओं के बयानों के बाद भोपाल पुलिस ने इंदौर पुलिस को प्यारे मियां के खिलाफ तीन नए प्रकरण दर्ज करवाने के लिए जांच डायरी इंदौर भेजी थी। इतना ही नहीं पुलिस भोपाल से पीड़ित लड़कियों को इस बंगले में लेकर पहुंची थी।

Dakhal News

Dakhal News 20 November 2020


bhopal, MP, 27 in Ujjain, 18 in Damoh,19 new patients ,Corona found, Neemuch.

भोपाल। मध्यप्रदेश में कुछ दिनों की राहत के बाद कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या फिर बढऩे लगी है। नवम्बर के पहले और दूसरे सप्ताह में यहां कोरोना के नये मामलों में कमी आई थी, लेकिन अब बड़ी संख्या में नये मरीज सामने आ रहे हैं। बीते 24 घंटों के दौरान उज्जैन में 27, दमोह में 18 और नीमच में 19 नये संक्रमित सामने आए हैं।   उज्जैन के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार, बीते 24 घंटों में 699 सैम्पलों की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई। इनमें 27 नये लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके बाद जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढक़र 3771 हो गई है। वहीं, उज्जैन में बीते 24 घंटों में कोरोना से एक व्यक्ति की मौत की भी पुष्टि हुई है। इसके बाद यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या बढक़र 98 हो गई है। हालांकि, यहां कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ भी हो रहे हैं। अब तक जिले में 3715 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच चुके हैं। अब यहां सक्रिय मरीज 158 है, जिनका उपचार जारी है।   इसी तरह दमोह की मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ संगीता त्रिवेदी ने गुरुवार को बताया कि जिले में कोरोना 18 नये मरीज मिले हैं, जबकि बीते 24 घंटों में कोरोना से एक व्यक्ति की मौत की पुष्टि हुई है। इसके बाद जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढक़र 2350 और मृतकों की संख्या 68 हो गई है। हालांकि, यहां अब तक 2042 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। अब यहां सक्रिय मरीज 201 है, जिनका उपचार जारी है।   वहीं, नीमच जिले में भी कोरोना के 19 नये मरीज सामने आए हैं। सीएमएचओ कार्यालय द्वारा गुरुवार को दी गई जानकारी के अनुसार, कोरोना के 19 नये मरीजों के सामने आने के बाद जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढक़र 2390 हो गई है। इनमें से अभी तक 2251 व्यक्ति स्वस्थ हो चुके हैं और 37 लोगों की मौत हो चुकी है। अब जिले में सक्रिय मरीज 102 है, जिनका उपचार चल रहा है।

Dakhal News

Dakhal News 19 November 2020


bhopal, Rainfall falls , capital, rain, these areas , state ,next 48 hours, cold will increase

भोपाल। मध्य प्रदेश में मौसम का मिजाज नरम-गरम बना हुआ है। हालांकि दक्षिणी हवाओं के असर से भोपाल, सागर और जबलपुर संभाग के इलाकों में बादल छाने और उसके अगले 24 घंटों में बूंदा-बांदी की संभावना बन रही है। अगर बारिश होती है तो ठंड तेजी से बढ़ेगी।   राजधानी भोपाल में पिछले दो दिनों से बादलों ने डेरा डाल रखा है। बुधवार रात को कुछ देर के लिए बौछारें भी गिरी। इसके बाद मौसम में हल्की ठंडक घुल गई है। गुरुवार सुबह से भी बादल छाने से धीमी धूप निकली हुई है। मौसम विभाग ने गुरुवार को राजधानी भोपाल समेत आसपास के इलाकों में बौछारें गिरने की संभावना जताई है।   ग्वालियर में 22 से बदलेगा मौसमवहीं प्रदेश के ग्वालिय संभाग में भी मौसम के मिजाज में फिर से बदलाव आने लगा है। सुबह शहर कोहरे के आगोस में डूबा रहा। मौसम विभाग के अनुसार दो चक्रवातीय घेरे बने हुए हैं। राजस्थान के ऊपर बने चक्रवातीय घेरा 22 नवम्बर को शहर के मौसम को प्रभावित करेगा। बादल छाने के साथ-साथ बारिश के आसार बनेंगे।   उत्तर से हवा चलने पर ही आएगी तेजी से गिरावटउत्तर से पश्चिम की ओर चलने वाली हवा से तापमान में तेजी से गिरावट आती है। यह हवा जम्मू कश्मीर से अपने साथ बर्फीली ठंडक लेकर आती है। लेकिन चक्रवातीय घेरों की वजह से उत्तर-पश्चिम की हवा नहीं चल पा रही है। हवा शांत है और हवा शांत होने से तापमान बढ़ रहा है। 26 नवम्बर तक कड़ाके की ठंड से राहत रहने वाली है। क्योंकि तापमान में गिरावट के आसार नहीं है। बढ़ोत्तरी के आसार हैं।   इन तीन कारणों से बदले मौसमअरब सागर में एक चक्रवातीय घेरा बना हुआ है। दूसरा चक्रवातीय घेरा दक्षिण पूर्वी राजस्थान के ऊपर बना हुआ है। 22 नवम्बर को जम्मू कश्मीर से पश्चिमी विक्षोभ गुजरने वाला है। अरब सागर का चक्रवातीय घेरा कम दबाव के क्षेत्र में बदलने के आसार हैं। इन तीन कारणों से मौसम में फिर से बदलाव आएगा। 22 नवम्बर से बादल व गरज चमक के साथ बारिश के आसार बनेंगे। जहां भी चक्रवातीय घेरा विकसित होता है, वहां के तापमान में इजाफा होता है। अगर समुद्र से नमी मिल जाती है तो बारिश कराता है। राजस्थान के ऊपर बने चक्रवातीय घेरे को पश्चिम विक्षोभ व अरब सागर से नमी मिलने के आसार हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 19 November 2020


bhopal, Rainfall falls , capital, rain, these areas , state ,next 48 hours, cold will increase

भोपाल। मध्य प्रदेश में मौसम का मिजाज नरम-गरम बना हुआ है। हालांकि दक्षिणी हवाओं के असर से भोपाल, सागर और जबलपुर संभाग के इलाकों में बादल छाने और उसके अगले 24 घंटों में बूंदा-बांदी की संभावना बन रही है। अगर बारिश होती है तो ठंड तेजी से बढ़ेगी।   राजधानी भोपाल में पिछले दो दिनों से बादलों ने डेरा डाल रखा है। बुधवार रात को कुछ देर के लिए बौछारें भी गिरी। इसके बाद मौसम में हल्की ठंडक घुल गई है। गुरुवार सुबह से भी बादल छाने से धीमी धूप निकली हुई है। मौसम विभाग ने गुरुवार को राजधानी भोपाल समेत आसपास के इलाकों में बौछारें गिरने की संभावना जताई है।   ग्वालियर में 22 से बदलेगा मौसमवहीं प्रदेश के ग्वालिय संभाग में भी मौसम के मिजाज में फिर से बदलाव आने लगा है। सुबह शहर कोहरे के आगोस में डूबा रहा। मौसम विभाग के अनुसार दो चक्रवातीय घेरे बने हुए हैं। राजस्थान के ऊपर बने चक्रवातीय घेरा 22 नवम्बर को शहर के मौसम को प्रभावित करेगा। बादल छाने के साथ-साथ बारिश के आसार बनेंगे।   उत्तर से हवा चलने पर ही आएगी तेजी से गिरावटउत्तर से पश्चिम की ओर चलने वाली हवा से तापमान में तेजी से गिरावट आती है। यह हवा जम्मू कश्मीर से अपने साथ बर्फीली ठंडक लेकर आती है। लेकिन चक्रवातीय घेरों की वजह से उत्तर-पश्चिम की हवा नहीं चल पा रही है। हवा शांत है और हवा शांत होने से तापमान बढ़ रहा है। 26 नवम्बर तक कड़ाके की ठंड से राहत रहने वाली है। क्योंकि तापमान में गिरावट के आसार नहीं है। बढ़ोत्तरी के आसार हैं।   इन तीन कारणों से बदले मौसमअरब सागर में एक चक्रवातीय घेरा बना हुआ है। दूसरा चक्रवातीय घेरा दक्षिण पूर्वी राजस्थान के ऊपर बना हुआ है। 22 नवम्बर को जम्मू कश्मीर से पश्चिमी विक्षोभ गुजरने वाला है। अरब सागर का चक्रवातीय घेरा कम दबाव के क्षेत्र में बदलने के आसार हैं। इन तीन कारणों से मौसम में फिर से बदलाव आएगा। 22 नवम्बर से बादल व गरज चमक के साथ बारिश के आसार बनेंगे। जहां भी चक्रवातीय घेरा विकसित होता है, वहां के तापमान में इजाफा होता है। अगर समुद्र से नमी मिल जाती है तो बारिश कराता है। राजस्थान के ऊपर बने चक्रवातीय घेरे को पश्चिम विक्षोभ व अरब सागर से नमी मिलने के आसार हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 19 November 2020


bhopal, Special train , run between, Itarsi-Bhopal

भोपाल। रेल प्रशासन द्वारा अतिरिक्त रेल यातायात क्लीयर करने के उद्देश्य से शुक्रवार, 20 नवम्बर से भोपाल-इटारसी-भोपाल के बीच स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया गया है। यह ट्रेन आगामी एक दिसम्बर तक दोनों दिशाओं में 11-11 ट्रिप में चलाई जाएगी।   भोपाल रेल मंडल के जनसम्पर्क अधिकारी आईए सिद्दीकी ने बुधवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि गाड़ी संख्या 01271 इटारसी-भोपाल स्पेशन एक्सप्रेस शुक्रवार, 20 नवम्बर से आगामी 30 नवम्बर तक (11 ट्रिप) इटारसी स्टेशन से प्रतिदिन शाम 4.20 बजे रवाना होकर अगले दिन सुबह 9.30 बजे भोपाल स्टेशन पहुंचेगी। इसी प्रकार गाड़ी संख्या 02172 भोपाल-इटारसी स्पेशल एक्सप्रेस शुक्रवार, 20 नवम्बर से 30 नवम्बर तक (11 ट्रिप) भोपाल स्टेशन से शाम 6.30 बजे रवाना होकर अगले दिन दोपहर 12.30 बजे इटारसी स्टेशन पहुंचेगी।    उन्होंने बताया कि यह ट्रेन रास्ते में इटारसी, गुमरखेड़ी, सोहागपुर, पिपरिया, बनखेड़ी, सालीचौका रोड, गाड़रवारा, बोहानी, करेली, नरसिंहपुर, करबेल, श्रीधाम, भिटौनी, मदनमहल, जबलपुर, सिहोरा रोड, स्लीमनाबाद रोड, कटनी मुड़वारा, दमोह, मकरोनिया, सागर, खुरई, बीना, मंडीबामोरा, गंजबासौदा, गुलाबगंज, विदिशा स्टेशनों पर हाल्ट लेकर चलेगी। इस ट्रेन में 04 शयनयान श्रेणी, 11 सामान्य श्रेणी, 02 एसएलआर समेत कुल 15 डिब्बे रहेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 18 November 2020


bhopal, Weather update, rain in gwalior-chambal, buddelkhand, cloudy in Bhopal

भोपाल। वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के प्रभाव से प्रदेश के ग्वालियर-चंबल संभाग एवं बुंदेलखंड क्षेत्र सहित कई हिससों में बीते 24 घंटों में बारिश हुई है। वहीं, राजधानी भोपाल में बुधवार सुबह से बादल छाए हैं, जिसके कारण भोपाल और आसपास के इलाकों में रात का तापमान बढ़ा हुआ है। मौसम विज्ञानियों ने अभी दो-तीन दिन तक न्यूनतम तापमान में गिरावट नहीं होने की संभावना जताई है। इसके साथ ही गुरुवार को भोपाल और उसके आसपास के इलाकों में बारिश होने की संभावना जताई है।   उत्तर भारत में आए वेस्टर्न डिस्टरबेंस का असर राजधानी समेत प्रदेश के कई इलाकों में हुआ है। बुधवार को सुबह राजधानी में बादल के साथ धुंध भी छाई रही। इस दौरान विजिबिलिटी 3 हजार मीटर रह गई थी। इधर, ग्वालियर-चंबल और बुंदेलखंड के कई शहरों और कस्बों में बारिश हुई। टीकमगढ़ में सबसे ज्यादा पौन इंच बारिश रिकॉर्ड की गई। मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि देश के उत्तरी हिस्से में आए वेस्टर्न डिस्टरबेंस के कारण मौसम में परिवर्तन हो रहा है। बुधवार को एक और ऐसा सिस्टम पहुंचने की संभावना है, लेकिन ये ज्यादा स्ट्रांग नहीं है। इसी वजह से सुबह से ही राजधानी में बादलों के साथ धुंध भी छाई रही।   हो सकती है बारिशपश्चिमी विक्षोभ के कारण गुरुवार को भोपाल में हल्की बौछारें पड़ने की भी संभावना है। पश्चिमी विक्षोभ के आगे बढ़ने के बाद हवाओं का रुख उत्तरी होने से एक बार फिर राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में दिन और रात के तापमान में गिरावट दर्ज होने लगेगी।

Dakhal News

Dakhal News 18 November 2020


indore, 194 new cases ,corona, three people also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना के नये मरीजों और मृतकों की संख्या फिर बढऩे लगी है। नवम्बर के पहले सप्ताह में यहां 100 से कम नये मरीज मिल रहे थे, लेकिन दूसरे सप्ताह में यह आंकड़ा फिर सौ के पार पहुंच गया है। बीते 24 घंटों में यहां कोरोना के 194 नये मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 36,055 और मृतकों का संख्या 719 हो गई है।    इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने बुधवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा मंगलवार देर रात 2274 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 194 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 36,055 हो गई है। वहीं, इंदौर में बीते 24 घंटों में कोरोना से तीन मरीजों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 719 हो गई है। हालांकि, यहां कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 33,304 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 2032 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है। 

Dakhal News

Dakhal News 18 November 2020


bhopal, 207 new, corona infected, 500 dead

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना का कहर जारी है। यहां संक्रमित मरीजों के साथ-साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या भी लगातार बढ़ती जा रही है। यहां बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना के 207 नये मामले सामने आए हैं, जबकि एक मरीज की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढक़र 27,891 हो गई है, जबकि मृतकों की संख्या 500 पहुंच गई है।   भोपाल सीएमएचओ कार्यालय द्वारा मंगलवार को दी गई जानकारी के अनुसार, राजधानी में बीते 24 घंटों में 1384 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई। इनमें 207 नये व्यक्तियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढक़र 27,891 हो गई है। वहीं, बीते 24 घंटों में कोरोना से एक व्यक्ति की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 500 हो गई है। हालांकि, भोपाल में संक्रमित मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं। यहां अब तक 25,561 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 1841 है, जिनका उपचार जारी है। 

Dakhal News

Dakhal News 17 November 2020


Bhopal, Giant fire, shoe store, found after hard work

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के हनुमानगंज थाना इलाके में हमीदिया रोड पर एक जूतों के गोदाम में बीती देर रात भीषण आग लग गई। सूचना मिलने पर दमकल की गाडिय़ां मौके पर पहुंची और तीन घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। बताया जा रहा है कि गोदाम रहवासी इलाके में शापिंग काम्पलेक्स के बेसमेंट में था, जहां फायर बिग्रेड को पहुंचने में भारी दिक्कतें हुई। इस आजगजनी में लाखों का माल जलकर खाक हो गया।    फायर कंट्रोल रूप से मिली जानकारी के मुताबिक, रविवार रात करीब साढ़े 11 बजे सूचना मिली थी कि हनुमानगंज इलाके में जूतों के गोदाम में आग लग गई। जब तक दमकल की गाडिय़ां मौके पर पहुंची, तब तक आग तेजी से फैल गई और पूरे गोदाम को अपनी चपेट में ले लिया। दमकल की 10 से अधिक गाडिय़ों को मौके पर बुलाया गया और करीब तीन घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। घटनास्थल पर पहुंचने का कोई दूसरा रास्ता नहीं होने के कारण फायर कर्मियों को आग बुझाने में काफी परेशानी हुई। थोड़ी सी जगह होने के कारण आग बुझाने के लिए जमीन पर लेटकर फायर कर्मियों को पानी की बौछारें छोडऩी पड़ी। फिलहाल, आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया है। शॉर्ट सर्किट से आग लगने की संभावना जताई जा रही है। पुलिस ने मामले को जांच में लिया है।

Dakhal News

Dakhal News 16 November 2020


indore,89 new ,corona cases ,relief for second consecutive day

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर से लगातार दूसरे दिन कोरोना के नये मरीजों के मामले में राहत की खबर मिली है। यहां बीते 24 घंटों में कोरोना के 89 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 35,683 हो गई है। इंदौर में बीते एक सप्ताह से सौ से अधिक नये संक्रमित मिल रहे हैं, लेकिन एक दिन पहले यहां यह संख्या घटकर 76 पर आ गई थी। अब दूसरे दिन भी यहां 100 से कम नये मरीज मिले हैं।    इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने सोमवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा रविवार देर रात 1003 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 89 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 35,683 हो गई है। वहीं, इंदौर में बीते 24 घंटों में कोरोना से किसी की मौत नहीं हुई है। यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 714 पर स्थिर है। वहीं, इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 33,053 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 1916 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है। 

Dakhal News

Dakhal News 16 November 2020


indore,195 new cases , corona, three people also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना के नये मरीजों और मृतकों की संख्या फिर बढऩे लगी है। नवम्बर के पहले सप्ताह में यहां 100 से कम नये मरीज मिल रहे थे, लेकिन दूसरे सप्ताह में यह आंकड़ा फिर सौ के पार पहुंच गया है। बीते 24 घंटों में यहां कोरोना के 195 नये मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 35,321 है और मृतकों का संख्या 710 हो गई है। इंदौर में लगातार पांचवें दिन कोरोना के सौ से अधिक मरीज मिले हैं।    इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने शुक्रवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा गुरुवार देर रात 2240 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 195 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 35,321 हो गई है।    वहीं, इंदौर में बीते 24 घंटों में कोरोना से तीन मरीजों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 710 हो गई है। हालांकि, यहां कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 32,749 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 1862 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है। 

Dakhal News

Dakhal News 13 November 2020


bhopal, weather in Madhya Pradesh, took a turn, possibility of rain

भोपाल। मध्य प्रदेश में मौसम ने तेजी से करवट बदली है। पिछले दो दिनों से पारा लगातार नीचे जा रहा है। उत्तर भारत की तरफ से आ रही सर्द हवाओं के कारण राजधानी भोपाल सहित प्रदेश के अधिकतर जिलों में अब ठंड का असर बढऩे लगा है। बुंदेलखंड के ग्रामीणों इलाकों में तो कड़ाके की ठंड ने हाड़ कंपना शुरू कर दिया है। मौसम वैज्ञानिकों ने भी प्रदेश में आने वाले दिनों में तेजी से ठंड बढऩे उम्मीद जताई है। इसके साथ ही कुछ स्थानों पर बारिश गिरने की भी संभावना है, जिससे ठंड का असर ओर तेज हो जाएगा।   राजधानी भोपाल में पिछले तीन दिनों लगातार पारा गिरता जा रहा है। भोपाल में दिन का तापमान 27 डिग्री के नीचे पहुंच गया, जबकि शाम के वक्त भी पारा तेजी से नीचे जा रहा है। अगले कुछ दिनों में राजधानी भोपाल सहित रायसेन, विदिशा, सागर, दमोह, टीकमगढ़, छतरपुर, ग्वालियर, मुरैना, भिंड, श्योपुर सहित अन्य कई जिलों में कड़ाके की ठंड पडऩे के आसार जताए गए हैं। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि इस वक्त उत्तर भारत में जमकर बर्फबारी हो रही है। जिससे उत्तराखंड, हिमाचल सहित अन्य राज्यों में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। यहां 13 से 15 नवंबर के बीच एक तीव्र सिस्टम बनने के आसार बताए जा रहे हैं। जिससे उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड के साथ सर्द हवाएं चलने की उम्मीद है। लिहाजा इन हवाओं का असर मध्य प्रदेश की तरफ होता है तो आने वाले कुछ दिनों में ग्वालियर चंबल के जिलों में जिनमें ग्वालियर, शिवपुरी, मुरैना, श्योपुर, भिंड जिले में बारिश की संभावना जताई गयी है। अगर बारिश होती है तो ठंड के तेवर और तीखे हो सकते हैं।   मौसम विभाग के मुताबिक मध्य प्रदेश के मैदानी इलाकों में सबसे ज्यादा ठंड पढ़ रही है। बुंदेलखंड अंचल के सागर, छतरपुर और टीकमगढ़ जिले में ठंड का असर दिखने लगा है। यहां सुबह और शाम के वक्त पारा तेजी से नीचे जाने की वजह से ठंड बढ़ गयी।

Dakhal News

Dakhal News 13 November 2020


datia, This year, there will not , fair in Ratangarh Mata temple , Deepawali

दतिया। जिल के प्रसिद्ध रतनगढ़ माता-मंदिर में हर साल दीपावली की दूज के अवसर पर आयोजित होने वाला तीन दिवसीय मेला इस साल नहीं लगेगा। जिला प्रशासन ने इस साल कोरोना के चलते इस मेले पर प्रतिबंध लगा दिया है।दरअसल, रतनगढ़ माता मंदिर पर प्रतिवर्ष दीपावली की दूज पर तीन दिवसीय भव्य मेले का आयोजन किया जाता है, जिसमें मध्यप्रदेश के साथ-साथ देश के अन्य राज्यों से भी बड़ी संख्या में श्रद्धालु आते हैं। इस साल यह मेला 15 से 17 नवम्बर तक आयोजित होना था, लेकिन जिला प्रशासन ने शासन के निर्देशानुसार वर्तमान में कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए रतनगढ़ माता मंदिर पर आयोजित होने वाला मेला प्रतिबंधित किया है।दतिया कलेक्टर संजय कुमार ने बताया कि वर्तमान में कोरोना वायरस के संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए म.प्र. शासन गृह मंत्रालय के आदेशानुसार प्रदेश में धार्मिक स्थलों पर मेलों के आयोजन को प्रबंधित किया गया है। साथ ही उच्च न्यायालय के निर्देशों के पालन में जनसमुदाय के स्वास्थ्य की रक्षा को दृष्टिगत रखते हुये आयोजन किया जाना जनहित में नहीं है। इसीलिए इस मेले पर प्रतिबंध लगाया गया है।जिला प्रशासन ने मेले में आने वाले लोगों से अपील की है कि कोरोना का संक्रमण अभी खत्म नहीं हुआ है। संक्रमण से बचने के लिए 15 से 17 नवम्बर तक रतनगढ़ पहुंचने के कार्यक्रम स्थगित कर मंदिर दर्शन अगली तिथि में करें। कोरोना संक्रमण को देखते हुए दतिया जिले की सीमाओं से लगे जिले एवं अन्य प्रांतों के जिला प्रशासन द्वारा रतनगढ़ मेले में जाने वाले वाहनों केा रोकने का कार्य किया जाएगा। जिला प्रशासन ने नागरिकों से अनुरोध किया है कि माता रानी की आराधना अपने घरों पर ही लाइव दर्शन www.ratangarhmatamandir.in लिंक के माध्यम से करें।

Dakhal News

Dakhal News 13 November 2020


datia, This year, there will not , fair in Ratangarh Mata temple , Deepawali

दतिया। जिल के प्रसिद्ध रतनगढ़ माता-मंदिर में हर साल दीपावली की दूज के अवसर पर आयोजित होने वाला तीन दिवसीय मेला इस साल नहीं लगेगा। जिला प्रशासन ने इस साल कोरोना के चलते इस मेले पर प्रतिबंध लगा दिया है।दरअसल, रतनगढ़ माता मंदिर पर प्रतिवर्ष दीपावली की दूज पर तीन दिवसीय भव्य मेले का आयोजन किया जाता है, जिसमें मध्यप्रदेश के साथ-साथ देश के अन्य राज्यों से भी बड़ी संख्या में श्रद्धालु आते हैं। इस साल यह मेला 15 से 17 नवम्बर तक आयोजित होना था, लेकिन जिला प्रशासन ने शासन के निर्देशानुसार वर्तमान में कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए रतनगढ़ माता मंदिर पर आयोजित होने वाला मेला प्रतिबंधित किया है।दतिया कलेक्टर संजय कुमार ने बताया कि वर्तमान में कोरोना वायरस के संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए म.प्र. शासन गृह मंत्रालय के आदेशानुसार प्रदेश में धार्मिक स्थलों पर मेलों के आयोजन को प्रबंधित किया गया है। साथ ही उच्च न्यायालय के निर्देशों के पालन में जनसमुदाय के स्वास्थ्य की रक्षा को दृष्टिगत रखते हुये आयोजन किया जाना जनहित में नहीं है। इसीलिए इस मेले पर प्रतिबंध लगाया गया है।जिला प्रशासन ने मेले में आने वाले लोगों से अपील की है कि कोरोना का संक्रमण अभी खत्म नहीं हुआ है। संक्रमण से बचने के लिए 15 से 17 नवम्बर तक रतनगढ़ पहुंचने के कार्यक्रम स्थगित कर मंदिर दर्शन अगली तिथि में करें। कोरोना संक्रमण को देखते हुए दतिया जिले की सीमाओं से लगे जिले एवं अन्य प्रांतों के जिला प्रशासन द्वारा रतनगढ़ मेले में जाने वाले वाहनों केा रोकने का कार्य किया जाएगा। जिला प्रशासन ने नागरिकों से अनुरोध किया है कि माता रानी की आराधना अपने घरों पर ही लाइव दर्शन www.ratangarhmatamandir.in लिंक के माध्यम से करें।

Dakhal News

Dakhal News 13 November 2020


umaria,EOW raids, cooperative cooperative manager, house

उमरिया।  मध्य प्रदेश के उमरिया में ईओडब्ल्यू ने दिपावली से दो दिन पहले बड़ी कार्यवाई को अंजाम दिया है। आय से अधिक संपत्ति की शिकायत मिलने के बाद ईओडब्ल्यू की टीम ने सहकारी समिति सिगडी के प्रबंधक के घर पर छापा मारा है। छापे में प्रबंधक के यहां से बेनामी संपत्ति का खुलासा हुआ है। फिलहाल ईओडब्ल्यू की कार्यवाई जारी है। जांच पूरी होने के बाद बड़ा खुलासा हो सकता है।   जानकारी अनुसार लंबे समय से ईओडब्लयू को सहकारी समिति सिगडी के प्रबंधक राम सुवन गुप्ता के पास आय से अधिक संपत्ति की शिकायत मिल रही थी। जांच में आरोप सही सिद्ध होने पर गुरुवार सुबह ईओडब्ल्यू की 10 सदस्यीय टीम ने प्रबंधक के ग्राम पतौर स्थित निजी मकान में दबिश दी। इस कार्यवाही में मुख्य रूप से निरीक्षक प्रवीण चतुर्वेदी, निरीक्षक सज्जन सिंह परिहार,उप निरीक्षक आशीष मिश्रा,उप निरीक्षक सीएल रावत, उपनिरीक्षक गरिमा त्रिपाठी, एएसआई संतोष कुमार पांडे, आरक्षक घनश्याम त्रिपाठी, रामजी पांडे,सत्यनारायण मिश्रा,पुष्पेंद्र पटेल, धनंजय सिंह,महिला आरक्षक पूनिका सिंह है। इस मामले में बताया जाता है कि गोपनीय तरीके से इनके विरुद्ध शिकायत की गई थी, जिसके बाद विधिवत एफआईआर पंजीबद्ध किया गया है,जिसके बाद ईओडब्ल्यू रीवा ने कार्यवाही की है।नगद के अलावा जमीनों के दस्तावेज मिलेईओडब्ल्यू के एसपी वीरेंद्र जैन ने बताया कि छापे के दौरान प्रबंधक के घर में 2 लाख से ज्यादा का केस, 5:30 लाख की ज्वेलरी, दो बाइक, साढे 8 लाख मूल्य की एक आर्टिका कार, कई जमीनों के दस्तावेज जब्त किए गए हैं। साथ ही आठ अलग-अलग खातों में 5 लाख 50 हजार जमा होने की जानकारी भी खातों से मिली है। एलआईसी की अलग-अलग पॉलिसियों से 20 लाख के बीमा के दस्तावेज भी घर से बरामद किए गए हैं।

Dakhal News

Dakhal News 12 November 2020


umaria,EOW raids, cooperative cooperative manager, house

उमरिया।  मध्य प्रदेश के उमरिया में ईओडब्ल्यू ने दिपावली से दो दिन पहले बड़ी कार्यवाई को अंजाम दिया है। आय से अधिक संपत्ति की शिकायत मिलने के बाद ईओडब्ल्यू की टीम ने सहकारी समिति सिगडी के प्रबंधक के घर पर छापा मारा है। छापे में प्रबंधक के यहां से बेनामी संपत्ति का खुलासा हुआ है। फिलहाल ईओडब्ल्यू की कार्यवाई जारी है। जांच पूरी होने के बाद बड़ा खुलासा हो सकता है।   जानकारी अनुसार लंबे समय से ईओडब्लयू को सहकारी समिति सिगडी के प्रबंधक राम सुवन गुप्ता के पास आय से अधिक संपत्ति की शिकायत मिल रही थी। जांच में आरोप सही सिद्ध होने पर गुरुवार सुबह ईओडब्ल्यू की 10 सदस्यीय टीम ने प्रबंधक के ग्राम पतौर स्थित निजी मकान में दबिश दी। इस कार्यवाही में मुख्य रूप से निरीक्षक प्रवीण चतुर्वेदी, निरीक्षक सज्जन सिंह परिहार,उप निरीक्षक आशीष मिश्रा,उप निरीक्षक सीएल रावत, उपनिरीक्षक गरिमा त्रिपाठी, एएसआई संतोष कुमार पांडे, आरक्षक घनश्याम त्रिपाठी, रामजी पांडे,सत्यनारायण मिश्रा,पुष्पेंद्र पटेल, धनंजय सिंह,महिला आरक्षक पूनिका सिंह है। इस मामले में बताया जाता है कि गोपनीय तरीके से इनके विरुद्ध शिकायत की गई थी, जिसके बाद विधिवत एफआईआर पंजीबद्ध किया गया है,जिसके बाद ईओडब्ल्यू रीवा ने कार्यवाही की है।नगद के अलावा जमीनों के दस्तावेज मिलेईओडब्ल्यू के एसपी वीरेंद्र जैन ने बताया कि छापे के दौरान प्रबंधक के घर में 2 लाख से ज्यादा का केस, 5:30 लाख की ज्वेलरी, दो बाइक, साढे 8 लाख मूल्य की एक आर्टिका कार, कई जमीनों के दस्तावेज जब्त किए गए हैं। साथ ही आठ अलग-अलग खातों में 5 लाख 50 हजार जमा होने की जानकारी भी खातों से मिली है। एलआईसी की अलग-अलग पॉलिसियों से 20 लाख के बीमा के दस्तावेज भी घर से बरामद किए गए हैं।

Dakhal News

Dakhal News 12 November 2020


umaria,EOW raids, cooperative cooperative manager, house

उमरिया।  मध्य प्रदेश के उमरिया में ईओडब्ल्यू ने दिपावली से दो दिन पहले बड़ी कार्यवाई को अंजाम दिया है। आय से अधिक संपत्ति की शिकायत मिलने के बाद ईओडब्ल्यू की टीम ने सहकारी समिति सिगडी के प्रबंधक के घर पर छापा मारा है। छापे में प्रबंधक के यहां से बेनामी संपत्ति का खुलासा हुआ है। फिलहाल ईओडब्ल्यू की कार्यवाई जारी है। जांच पूरी होने के बाद बड़ा खुलासा हो सकता है।   जानकारी अनुसार लंबे समय से ईओडब्लयू को सहकारी समिति सिगडी के प्रबंधक राम सुवन गुप्ता के पास आय से अधिक संपत्ति की शिकायत मिल रही थी। जांच में आरोप सही सिद्ध होने पर गुरुवार सुबह ईओडब्ल्यू की 10 सदस्यीय टीम ने प्रबंधक के ग्राम पतौर स्थित निजी मकान में दबिश दी। इस कार्यवाही में मुख्य रूप से निरीक्षक प्रवीण चतुर्वेदी, निरीक्षक सज्जन सिंह परिहार,उप निरीक्षक आशीष मिश्रा,उप निरीक्षक सीएल रावत, उपनिरीक्षक गरिमा त्रिपाठी, एएसआई संतोष कुमार पांडे, आरक्षक घनश्याम त्रिपाठी, रामजी पांडे,सत्यनारायण मिश्रा,पुष्पेंद्र पटेल, धनंजय सिंह,महिला आरक्षक पूनिका सिंह है। इस मामले में बताया जाता है कि गोपनीय तरीके से इनके विरुद्ध शिकायत की गई थी, जिसके बाद विधिवत एफआईआर पंजीबद्ध किया गया है,जिसके बाद ईओडब्ल्यू रीवा ने कार्यवाही की है।नगद के अलावा जमीनों के दस्तावेज मिलेईओडब्ल्यू के एसपी वीरेंद्र जैन ने बताया कि छापे के दौरान प्रबंधक के घर में 2 लाख से ज्यादा का केस, 5:30 लाख की ज्वेलरी, दो बाइक, साढे 8 लाख मूल्य की एक आर्टिका कार, कई जमीनों के दस्तावेज जब्त किए गए हैं। साथ ही आठ अलग-अलग खातों में 5 लाख 50 हजार जमा होने की जानकारी भी खातों से मिली है। एलआईसी की अलग-अलग पॉलिसियों से 20 लाख के बीमा के दस्तावेज भी घर से बरामद किए गए हैं।

Dakhal News

Dakhal News 12 November 2020


gwalior, Fireworks market, decorated, fair grounds, security strengthened

ग्वालियर। देर सबेर ही सही, लेकिन शहर के मेला मैदान में हर साल की तरह फुटकर आतिशबाजी बाजार सजने लगा है, दुकानदारों ने यहां पहुंचकर दुकानें लगाना शुरू कर दिया है। कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए इस बार प्रशासन द्वारा मात्र 210 दुकानें लगाने की ही अनुमति प्रदान की गई है। वहीं इसके अलावा भी सुरक्षा के मद्देनजर तमाम तरह की हिदायतें यहां दुकान सजाने वालों को दी गई हैं, जिसके द्वारा इन नियमों का उल्लंघन किया जाएगा, उनका लायसेंस रद्द होगा। इस बार आमने सामने दुकानें नहीं लगेंगी।   उल्लेखनीय है कि कोरोना के चलते इस बार मेला मैदान में आतिशबाजी की दुकानें लगाई भी जाएंगी या नहीं, इस पर संदेह था, क्योंकि प्रशासन द्वारा इस पर किसी भी तरह का फैसला नहीं लिया जा रहा था, वहीं बीच में चुनाव आ जाने के कारण भी इस निर्णय में विलंब हुआ। चूंकि आतशिबाजी विक्रेताओं ने प्रशासन के सामने अपनी मजबूरी और रोजगार का हवाला देते हुए दुकान लगाने की मांग की, जिस पर नए लायसेंस तो जारी नहीं हुए, लेकिन 210 दुकानदारों को दुकानें लगाने की परमीशन मिल गई। इनके साथ कुछ शर्ते जरूर जोड़ी गई हैं। मसलन इन्हें फायर फायटिंग सिस्टम लगाने के साथ ही रेत की बाल्टियां भी रखनी होंगी। किसी भी तरह का ज्वलनशील पदार्थ यहां नहीं रखा जा सकेगा, साथ ही धूम्रपान पूरी तरह से निषेध होगा।   यह होंगे सुरक्षा के बंदोबस्त   सभी दुकानें निर्धारित पर्याप्त दूरी पर लगानी हैं। वहीं 24 घंटे फायर ब्रिगेड की गाड़ी और फायर अमला यहां मौजूद रहेगा। इधर दुकानदारों का कहना है कि इस बार उनके व्यापार पर विपरीत असर पड़ सकता है, क्योंकि आतिशबाजी का सामान काफी महंगा है, वहीं उन्हें दुकानें लगाने के लिए पर्याप्त समय नहीं मिला।

Dakhal News

Dakhal News 11 November 2020


indore,128 new ,corona cases, death toll crosses 700

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में फिर कोरोना के नये मरीजों और मृतकों की संख्या बढऩे लगी है। पिछले एक सप्ताह तक यहां 100 से कम नये मरीज मिलने के बाद यह आंकड़ा फिर सौ के पार पहुंच गया है। बीते 24 घंटों में यहां कोरोना के 128 नये मामले सामने आए हैं, जबकि चार लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 34,970 हो गई है और मृतकों का आंकड़ा 700 के पार पहुंच गया है।   इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने बुधवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा मंगलवार देर रात 3005 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 128 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 34,970 हो गई है। वहीं, इंदौर में बीते 24 घंटों में कोरोना से चार मरीजों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 703 हो गई है। हालांकि, यहां कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 32,545 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 1722 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है। 

Dakhal News

Dakhal News 11 November 2020


Bhopal, Special arrangements , Dhanteras, auto rickshaws, car-jeeps ,enter the market

भोपाल। धनतेरस में बाजार में लगने वाली खरीदारों की भीड़ को देखते हुए यातायात पुलिस ने विशेष इंतजाम किए हैं। इसके अनुसार पुराने शहर के प्रमुख बाजारों में ऑटो रिक्शा, कार, जीप आदि नहीं घुस सकेंगे।   ट्रैफिक पुलिस ने गुरुवार को आ रहे धनतेरस पर्व के लिए विशेष इंतजाम किए हैं। गुरुवार को धनतेरस पर्व पर पुराने शहर के प्रमुख बाजार जुमेराती, घोड़ा नक्कास, हनुमानगंज, आजाद मार्केट में बड़े पैमाने पर खरीदार पहुंचेंगे। लोगों की सुरक्षा और सुविधा के मद्देनजर ट्रैफिक पुलिस ने गुरुवार को सुबह से ही इन बाजारों में लोडिंग वाहन/ऑटो रिक्शा, चार पहिया वाहन आदि के प्रवेश पर रोक लगा दी है। इसके लिए ट्रैफिक पुलिस ने विशेष पार्किंग की व्यवस्था की है। पुलिस ने पार्किंग के अलावा कहीं भी खड़े वाहनों पर कार्रवाई की चेतावनी दी है। वहीं, भीड़ अधिक बढ़ने पर दोपहिया वाहनों के भी बाजार में प्रवेश पर रोक लगाने की बात कही गई है।

Dakhal News

Dakhal News 11 November 2020


Bhopal, Special arrangements , Dhanteras, auto rickshaws, car-jeeps ,enter the market

भोपाल। धनतेरस में बाजार में लगने वाली खरीदारों की भीड़ को देखते हुए यातायात पुलिस ने विशेष इंतजाम किए हैं। इसके अनुसार पुराने शहर के प्रमुख बाजारों में ऑटो रिक्शा, कार, जीप आदि नहीं घुस सकेंगे।   ट्रैफिक पुलिस ने गुरुवार को आ रहे धनतेरस पर्व के लिए विशेष इंतजाम किए हैं। गुरुवार को धनतेरस पर्व पर पुराने शहर के प्रमुख बाजार जुमेराती, घोड़ा नक्कास, हनुमानगंज, आजाद मार्केट में बड़े पैमाने पर खरीदार पहुंचेंगे। लोगों की सुरक्षा और सुविधा के मद्देनजर ट्रैफिक पुलिस ने गुरुवार को सुबह से ही इन बाजारों में लोडिंग वाहन/ऑटो रिक्शा, चार पहिया वाहन आदि के प्रवेश पर रोक लगा दी है। इसके लिए ट्रैफिक पुलिस ने विशेष पार्किंग की व्यवस्था की है। पुलिस ने पार्किंग के अलावा कहीं भी खड़े वाहनों पर कार्रवाई की चेतावनी दी है। वहीं, भीड़ अधिक बढ़ने पर दोपहिया वाहनों के भी बाजार में प्रवेश पर रोक लगाने की बात कही गई है।

Dakhal News

Dakhal News 11 November 2020


Bhopal, Special arrangements , Dhanteras, auto rickshaws, car-jeeps ,enter the market

भोपाल। धनतेरस में बाजार में लगने वाली खरीदारों की भीड़ को देखते हुए यातायात पुलिस ने विशेष इंतजाम किए हैं। इसके अनुसार पुराने शहर के प्रमुख बाजारों में ऑटो रिक्शा, कार, जीप आदि नहीं घुस सकेंगे।   ट्रैफिक पुलिस ने गुरुवार को आ रहे धनतेरस पर्व के लिए विशेष इंतजाम किए हैं। गुरुवार को धनतेरस पर्व पर पुराने शहर के प्रमुख बाजार जुमेराती, घोड़ा नक्कास, हनुमानगंज, आजाद मार्केट में बड़े पैमाने पर खरीदार पहुंचेंगे। लोगों की सुरक्षा और सुविधा के मद्देनजर ट्रैफिक पुलिस ने गुरुवार को सुबह से ही इन बाजारों में लोडिंग वाहन/ऑटो रिक्शा, चार पहिया वाहन आदि के प्रवेश पर रोक लगा दी है। इसके लिए ट्रैफिक पुलिस ने विशेष पार्किंग की व्यवस्था की है। पुलिस ने पार्किंग के अलावा कहीं भी खड़े वाहनों पर कार्रवाई की चेतावनी दी है। वहीं, भीड़ अधिक बढ़ने पर दोपहिया वाहनों के भी बाजार में प्रवेश पर रोक लगाने की बात कही गई है।

Dakhal News

Dakhal News 11 November 2020


bhopal,Better arrangements ,made for protection , wildlife , cold weather,Van Vihar

भोपाल। वन विहार राष्ट्रीय उद्यान-जू, भोपाल के प्रबंधन द्वारा शीत ऋतु के दौरान हाउसिंग में रखे गये नये वन्य-प्राणी सिंह, बाघ, तेंदुआ, भालू एवं हायना आदि की सुरक्षा के बेहतर इंतजाम किये गये हैं।   संचालक, वन विहार राष्ट्रीय उद्यान कोमलिका मोहंता ने मंगलवार को बताया कि इन वन्य-प्राणियों के हाउसिंग के दरवाजे पर पर्दे, तखत, पुवाल एवं रूम-हीटर आदि लगा दिये गये हैं, ताकि यह वन्य-प्राणी स्वस्थ और सुरक्षित रह सकें।   उल्लेखनीय है कि वन विहार राष्ट्रीय उद्यान में 65 सिंह, 14 बाघ, 11 तेंदुआ, 2 हायना एवं 21 भालू मौजूद हैं।

Dakhal News

Dakhal News 10 November 2020


bhopal, Corona

भोपाल, 10 नवम्बर (हि.स.)। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना का कहर जारी है। यहां संक्रमित मरीजों के साथ-साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या भी लगातार बढ़ती जा रही है। यहां बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना के 208 नये मामले सामने आए हैं, जबकि एक मरीज की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढक़र 26,589 और मृतकों की संख्या 492 हो गई है।   भोपाल सीएमएचओ कार्यालय द्वारा मंगलवार को जानकारी दी गई कि राजधानी में बीते 24 घंटों में 2225 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई। इनमें 208 नये व्यक्तियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढक़र 26,589 हो गई है।    वहीं, बीते 24 घंटों में कोरोना से एक व्यक्ति की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 492 हो गई है। हालांकि, भोपाल में संक्रमित मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं। यहां अब तक 24,336 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 1700 है, जिनका उपचार जारी है। भोपाल में कोरोना का रिकवरी रेट 91 फीसदी से अधिक है।

Dakhal News

Dakhal News 10 November 2020


bhopal,Corona recovery rate ,91.59 in Bhopal , death rate 1.8 percent

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना के लगातार नये मामले सामने आ रहे हैं, लेकिन यहां कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ भी हो रहे हैं। भोपाल में अब तक 26,381 मरीज कोरोना संक्रमित पाए गए हैं और इनमें से 24,164 व्यक्ति कोरोना संक्रमण से पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। इस तरह भोपाल का रिकवरी रेट बढक़र 91.59 प्रतिशत है। वहीं, भोपाल में अब तक 491 व्यक्तियों की कोरोना संक्रमण से मृत्यु हुई है। यहां कोरोना संक्रमण से मृत्यु दर 1.8 प्रतिशत है।    भोपाल सीएमएचओ कार्यालय द्वारा सोमवार को जानकारी दी गई है कि राजधानी में अब तक 3 लाख 57 हजार से अधिक सैंपल गए। इनमें से 26,381 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इनमें से अब तक 24164 व्यक्ति कोरोना संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं। राजधानी में वर्तमान में सक्रिय मरीज 1741 है, जिनका उपचार जारी है।   भोपाल कलेक्टर अविनाश लवानिया ने शहर के नागरिकों से अपील की है कि हम जितने जागरूक होंगे उतनी ही तेजी और बेहतर तरीके से हम इस संक्रमण से लड़ पाएंगे। हमें स्व-अनुशासन का पालन कर खुद को सुरक्षित रखना होगा। घर से निकलने से पहले मास्क अनिवार्य रूप से लगाए। दो गज की दूरी के नियमों का पालन करें और आवश्यक होने पर ही घरों से बाहर निकलें। इसके साथ ही घर में बुजुर्ग व्यक्ति, गर्भवती महिलाएं और बच्चों का विशेष ध्यान रखना है। किसी को भी सर्दी, खाँसी, जुकाम, गले में दर्द जैसे लक्षण होने पर तुरंत समीप के शासकीय अस्पताल या फीवर क्लीनिक में ले जाएं और जांच कराएं। आप की जाँच कराना ही इस संक्रमण को हराने का पहला कदम है, जितनी जल्दी जांच होगी उतनी जल्दी ही आप स्वस्थ होंगे। शासन-प्रशासन जनहित में सभी आवश्यक कदम उठा रहा हैं हमें भी अपना सकारात्मक योगदान और सहयोग देना होगा।   कलेक्टर लवानिया ने ठंड के मौसम में कोरोना संक्रमण के बढऩे की संभावना को देखते हुये कोरोना वायरस के खतरे से बचाव के उपायों के प्रति लोगों को जागरूक करने के साथ-साथ कोरोना प्रोटोकॉल का पालन कराने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने बुजुर्गों और बीमार व्यक्तियों को कोरोना के संक्रमण से बचाने बरती जाने वाली सावधानियों का व्यापक प्रचार प्रसार करने तथा क्या करें और क्या न करें के सबन्ध में स्वास्थ्य विभाग आमजन को जागरूक करने के लिए विशेष अभियान चलायें।  कलेक्टर ने फीवर क्लीनिक की अवधारणा को और मजबूत बनाने की दिशा में सर्दी, खांसी, बुखार और सांस लेने में तकलीफ वाले सभी मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण किए जाने के निर्देश दिए हैं। घर-घर दस्तक अभियान के साथ प्रत्येक व्यक्ति को इस संबंध में जानकारी देने के लिये एफ.एम.चैनल और अन्य माध्यम से फीवर क्लीनिक की जानकारी दी जायें। फीवर क्लीनिक की लोकेशन बताने वाले साइन बोर्ड लगाये जाए। बच्चों और बुजुर्गों को सार्वजनिक जगहों पर नहीं ले जाए। प्रतिदिन प्राणायाम और रोग प्रतिरोधक बढ़ाने वाली वस्तुओं का सेवन करने की सलाह भी दी जाएं। 

Dakhal News

Dakhal News 9 November 2020


seoni, Earthquake tremors,Seoni again, panic among people

सिवनी। मध्यप्रदेश के सिवनी जिले में बीते तीन महीने से लगातार भूकंप के झटके महसूस किये जा रहे हैं। सोमवार सुबह फिर यहां जोरदार आजाव के साथ भूकंप के झटके महसूस किये गये, जिससे लोगों की नींद टूट गई और वे घबराकर अपने घरों से बाहर आ गए। लगातार हो रही भूगर्भीय हलचल से जिले के लोगों में दशहत का माहौल है और उनमें जिला प्रशासन के खिलाफ आक्रोश भी देखने को मिल रहा है।   जानकारी के मुताबिक, सिवनी जिला मुख्यालय स्थित डूंडासिवनी, छिडिय़ा, पलारी, बारापत्थर, कटंगी रोड क्षेत्र, जनता नगर, गणेश चौक, शुक्रवारी क्षेत्र समेत शहर के अन्य इलाकों में भी सोमवार तडक़े दो बार भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। क्षेत्र के रहवासियों ने बताया कि अलसुबह 4 से 5 बजे के बीच 2-3 बार हल्के झटके महसूस किए गए, जिससे उनकी नींद टूट गई। इसके बाद सुबह 6.46 बजे तेज झटका लगा, जिससे लोग घरों से बाहर आ गए। लोगों का कहना है कि झटके इतने जोरदार थे कि कई घरों की दीवारों में दरारें आ गईं। हालांकि, रिक्टर में यह भूकंपीय हलचल दर्ज नहीं हुई है।   लोगों का कहना है कि शहर में बीते 3 माह से भूगर्भीय हलचल हो रही। यहां लगातार झटके महसूस हो रहे हैं, जिससे लोगों में दशहत हैं। उन्हें डर है कि कहीं उनके घर न गिर जाए और जान-माल का बड़ा नुकसान होने की संभावना बनी हुई है, लेकिन प्रशासन द्वारा इसकी रोकथाम के लिए कोई प्रयास नहीं की जा रहे हैं। जानकारी मिली है कि भारत सरकार के पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र से तीन सदस्यीय दल सोमवार को सिवनी पहुंचने वाला है। यह दल जिले में हो रही भूगर्भीय हलचल की जांच करेगा और इसके कारणों का पता लगाएगा। 

Dakhal News

Dakhal News 9 November 2020


bhopal, Severe cold,capital, severe cold , coming days

भोपाल। मध्य प्रदेश में अब ठंड अपना असर दिखाने लगी है। प्रदेश भर में तापमान नीचे गिरा है। तीखे हुए सर्दी के तेवर ने लोगों को गर्म कपड़े पहनने को मजबूर कर दिया है। पिछले दिनों उत्तर भारत के पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी से हवा का रुख भी उत्तरी बना हुआ है। इस वजह से नवम्बर माह की शुरुआत में ही राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में ठंड के तेवर तीखे बने हुए हैं। मौसम विभाग के मुताबिक अब रात के तापमान में और गिरावट आने की संभावना है।   राजधानी भोपाल में लोग सर्दी से बचने के लिए गर्म कपड़े पहन कर घर से निकल रहे हैं। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने सोमवार को जानकारी देते हुए बताया कि उत्तर भारत के पहाड़ी क्षेत्रों में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। वहां से आ रही सर्द हवाओं के कारण प्रदेश में सिहरन बढऩे लगी है। पिछले दिनों गुजरात और उससे लगे पश्चिमी मप्र पर एक प्रति चक्रवात बना हुआ था। इससे कहीं-कहीं हवा का रुख पूर्वी दक्षिण-पूर्वी हो रहा था। यह सिस्टम अब कमजोर हो गया है। इससे राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में ठंड का असर बढऩे की संभावना है।   ग्वालियर में 14 नवम्बर से बढ़ेगी ठंड   जम्मू कश्मीर से पश्चिमी विक्षोभ गुजरने वाला है, जिससे शहर के न्यूनतम तापमान में तीन दिन तक बढ़ोतरी होगी। यह बढ़ोतरी 10 नवम्बर से संभावित है। तापमान 12 से 15 डिग्री सेल्सियस के बीच रह सकता है। जिससे रात में ठंडक कम हो जाएगी। जैसे ही पश्चिमी विक्षोभ गुजर जाएगा, वैसे ही न्यूनतम तापमान में तेजी से गिरावट आएगी। यह गिरावट 14 नवम्बर से संभावित है। इसके बाद दिन व रात में ठंड बढ़ेगी। पश्चिमी विक्षोभ पर अंचल की ठंड निर्भर करती है।    29 अक्टूबर से 2 नवम्बर के बीच जम्मू कश्मीर से पश्चिमी विक्षोभ गुजरा था। इसके गुजर जाने के बाद शहर में न्यूनतम तापमान में तेजी से गिरावट आई। न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया था। यह पश्चिमी विक्षोभ ज्यादा मजबूत नहीं था, इसलिए मौसम को प्रभावित नहीं कर पाया। वर्तमान में मौसम को प्रभावित करने वाला कोई सिस्टम नहीं बना है, जिससे दिन व रात में मौसम सामान्य हो गया है। रात में ठंड कम हो गई है। अब तापमान में बढ़ोतरी के आसार हैं। 14 नवम्बर के बाद तापमान में तेज गति से गिरावट आएगी। तापमान 7 डिग्री सेल्सियस तक आ सकता है। वर्तमान में दिन का तापमान 33 डिग्री सेल्सियस के ऊपर बना हुआ है, वह घटकर 25 से 26 डिसे के बीच आ जाएगा। मौसम केन्द्र भोपाल का कहना है कि नवंबर में तापमान में गिरावट आएगी। दिसंबर में शीत लहर की दस्तक होगी।

Dakhal News

Dakhal News 9 November 2020


Niwari, Five-year-old, innocent fighting, borewell, rescue work continues

निवाड़ी। मध्य प्रदेश के सेतपुरा गांव में बोरवेल में गिरे 5 साल के मासूम प्रहलाद का रेस्क्यू जारी है। बच्चे को बोर में फंसे हुए 48 घंटे बीच चुके है और बच्चे को लेकर चिंता बढ़ती जा रही है। बच्चे को बाहर निकालने के लिए अब तक करीब 65 फीट तक गड्ढा खोदा जा चुका है। स्थानीय अधिकारियों के मुताबिक अब भी उसे बाहर निकालने के लिए 8 से 10 घंटे का समय लग सकता है।   बोर में फंसे पांच साल के मासूम प्रहलाद तक पहुंचने के लिए अब एनडीआरएफ की टीम 20 फीट की टनल बनाने का काम करेगी। 12 से अधिक एनडीआरएफ की टीम रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी है। लंबे समय से बोर में फंसे होने के कारण बच्चा अब अचेत हो गया है। उसकी ना ही आवाज सुनाई दे रही है और ना ही वो कोई हलचल कर रहा है। ऐसे में प्रहलाद के लिए पूरे प्रदेश में दुआओं का दौर जारी हो है। परिजन पूरी तरह से परेशान हैं। उन्हें समझ नहीं आ रहा है कि वे क्या करें? प्रहलाद के यहां गांव वालों का भी तांता लगा हुआ है। गांव वाले भी उसकी सलामती की दुआ कर रहे हैं।   गौरतलब है कि बुधवार सुबह करीब 10 बजे प्रहलाद घर में खेलते-खेलते बगल के अपने खेत में चला गया था। इस दौरान वह अचानक बोरवेल में चला गया। परिजनों को जब जानकारी हुई तो उन्होंने सबसे पहले पुलिस को इसकी सूचना दी।

Dakhal News

Dakhal News 6 November 2020


Niwari, Five-year-old, innocent fighting, borewell, rescue work continues

निवाड़ी। मध्य प्रदेश के सेतपुरा गांव में बोरवेल में गिरे 5 साल के मासूम प्रहलाद का रेस्क्यू जारी है। बच्चे को बोर में फंसे हुए 48 घंटे बीच चुके है और बच्चे को लेकर चिंता बढ़ती जा रही है। बच्चे को बाहर निकालने के लिए अब तक करीब 65 फीट तक गड्ढा खोदा जा चुका है। स्थानीय अधिकारियों के मुताबिक अब भी उसे बाहर निकालने के लिए 8 से 10 घंटे का समय लग सकता है।   बोर में फंसे पांच साल के मासूम प्रहलाद तक पहुंचने के लिए अब एनडीआरएफ की टीम 20 फीट की टनल बनाने का काम करेगी। 12 से अधिक एनडीआरएफ की टीम रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी है। लंबे समय से बोर में फंसे होने के कारण बच्चा अब अचेत हो गया है। उसकी ना ही आवाज सुनाई दे रही है और ना ही वो कोई हलचल कर रहा है। ऐसे में प्रहलाद के लिए पूरे प्रदेश में दुआओं का दौर जारी हो है। परिजन पूरी तरह से परेशान हैं। उन्हें समझ नहीं आ रहा है कि वे क्या करें? प्रहलाद के यहां गांव वालों का भी तांता लगा हुआ है। गांव वाले भी उसकी सलामती की दुआ कर रहे हैं।   गौरतलब है कि बुधवार सुबह करीब 10 बजे प्रहलाद घर में खेलते-खेलते बगल के अपने खेत में चला गया था। इस दौरान वह अचानक बोरवेल में चला गया। परिजनों को जब जानकारी हुई तो उन्होंने सबसे पहले पुलिस को इसकी सूचना दी।

Dakhal News

Dakhal News 6 November 2020


Gwalior, fog that followed, till morning, increased the coolness

ग्वालियर। पश्चिमी विक्षोभ और देश के उत्तरी हिस्से में हो रही बफबारी का असर अब ग्वालियर के मौसम पर दिखाई देने लगा है। शुक्रवार को सुबह छाई धुंध की वजह से 8:30 बजे तक ठंडक महसूस होती रही। उत्तर की ओर से आ रही हवाओं के कारण कंपकपी महसूस हो रही थी। मौसम विभाग के अनुसार हाल में आए बदलाव के कारण दिन के तापमान में हल्की गिरावट आ सकती है।   जम्मू कश्मीर का ऊपरी हिस्सा पश्चिमी विक्षोभ से प्रभावित है, जिससे ऊपरी इलाकों में बर्फबारी हो रही है। इसी के प्रभाव के चलते बादल नहीं छा रहे हैं और रात का तापमान सामान्य से 2.1 डिसे नीचे चल रहा है। इस वजह से रात में ठंड का अहसास हो रहा है। मौसम विभाग ने गुरुवार की रात न्यूनतम तापमान 11.7 डिसे रिकार्ड किया। सुबह के समय धुंध होने से धूप का भी प्रभाव नहीं हुआ। सुबह 8:30 बजे तक ठंडक का अहसास होता रहा, जिससे लोगों की सुबह देर से हुई। मौसम विभाग के अनुसार 4 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवा भी चल सकती है और धुंध शाम को भी रह सकती है।   सबसे कम तापमान उमरिया में बीते 24 घंटों में प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 9.1 डिग्री उमरिया में रिकॉर्ड किया गया। वहीं, राजधानी भोपाल में न्यूनतम तापमान 13.2 डिग्री रहा, जिसके चलते ठंड का अहसास कुछ कम हुआ।

Dakhal News

Dakhal News 6 November 2020


Bhopal, Income tax department ,raids the bases,two advertising agencies

भोपाल। राजधानी भोपाल के न्यू मार्केट इलाके में मालवीय नगर और टीटी नगर स्थित दो निजी विज्ञापन एजेंसियों के दफ्तर समेत अन्य ठिकानों पर आयकर विभाग की अलग-अलग टीमों द्वारा छापामार कार्रवाई शुरू की गई है। फिलहाल कार्रवाई जारी है और आयकर विभाग की टीम दस्तावेज खंगाल रही है। छत्तीसगढ़ के रायपुर स्थित कम्पनी के कार्यालय में भी इसी तरह की कार्रवाई किये जाने की जानकारी मिली है।   जानकारी के मुताबिक आयकर विभाग की टीम शुक्रवार सुबह पुलिस बल के साथ भोपाल के न्यू मार्केट स्थित विज्ञापन कंपनी व्यापक इंटरप्राइजेस के दफ्तर पहुंची और छापामार कार्रवाई शुरू की। यह कंपनी कांग्रेस के करीबी मुकेश श्रीवास्तव की बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि इस विज्ञापन कंपनी को प्रदेश की पूर्ववर्ती कांग्रेस की कमलनाथ सरकार के दौरान करोड़ों रुपये के विज्ञापन का ठेका मिला था। कंपनी ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के एक करीबी के साथ पूरे मप्र में विज्ञापनों का बड़ा काम किया था। इसके अलावा दूसरी विज्ञापन एजेंसी विजन फोर्स के दफ्तर पर भी आयकर विभाग की टीम ने छापा है। इसका दफ्तर एमपी नगर में है और इस कंपनी के मालिक संजय प्रकट है। इन दोनों कंपनियों के मालिकों के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति और टैक्स चोरी की शिकायतें मिलने के बाद आयकर विभाग द्वारा के भोपाल कार्यालय द्वारा यह कार्रवाई की जा रही है। कार्रवाई में कई खुलासे होने संभावना जताई जा रही है।   जानकारी के मुताबिक, आयकर विभाग की अलग-अलग टीमें शुक्रवार को सुबह कोविड-19 लिखी हुई गाडिय़ों से दोनों विज्ञापन एजेंसियों के दफ्तर पहुंचे और कार्रवाई शुरू की। व्यापक इंटरप्राइजेस के मालिक मुकेश श्रीवास्तव के घर पर भी कोविड-19 लिखी गाडिय़ों से ही टीम पहुंची है। जानकारी मिली है कि भोपाल में दोनों कंपनियों के करीब 12 ठिकानों पर दबिश दी गई है। फिलहाल, आयकर विभाग की टीम इतवारा, कोटरा, सुलतानाबाद, कोहिफिजा, एयरपोर्ट रोड, शक्ति नगर, हिन्दी भवन के पास, अरेरा कॉलोनी के अलावा एमपी नगर और नेहरू नगर में दोनों एजेंसियों के दफ्तरों और आवास पर छापामार कार्रवाई कर रही है। इसके अलावा रायपुर में भी मुकेश श्रीवास्तव के दफ्तर पर आयकर विभाग की टीम ने दबिश दी है और वहां भी दस्तावेज खंगाले जा रहे हैं।

Dakhal News

Dakhal News 6 November 2020


Ujjain, Child dies ,due to collision , Bolero at high speed

उज्जैन। जिले के कायथा थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम मुंजाखेड़ी में मंगलवार सुबह भाई के साथ बिस्किट लेने जा रहे बच्चे को तेज रफ्तार बोलेरो ने टक्कर मार दी। इस हादसे में बच्चे की मौत हो गई। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले को जांच में लिया।   कायथा थाना पुलिस के अनुसार, ग्राम मुंजा खेड़ी निवासी ओंकार सिंह का चार वर्षीय पुत्र नरेंद्र मंगलवार को अपने भाई के साथ बिस्किट लेने के लिए घर से कुछ दूरी पर बनी दुकान पर जा रहा था। उसी दौरान ग्राम काट बड़ोदिया से तेज रफ्तार में कायथा की ओर आ रही बोलेरो ने नरेंद्र को कुचल दिया। दुर्घटना के बाद भाई का शोर सुनकर परिवार और आसपास के लोग एकत्रित हो गए। गंभीर हालत में मासूम को स्थानीय अस्पताल ले जाया गया, जहां से उज्जैन रेफर किया गया। जिला अस्पताल पहुंचने से पहले रास्ते में मासूम की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि ग्रामीणों ने बोलेरो चालक को पकड़ लिया था, जिसे पुलिस के सुपुर्द किया गया। पुलिस चौकी ने मर्ग कायम कर बच्चे के शव का पोस्टमार्टम कराया और परिजनों को सौंपा।    

Dakhal News

Dakhal News 3 November 2020


Ujjain, Child dies ,due to collision , Bolero at high speed

उज्जैन। जिले के कायथा थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम मुंजाखेड़ी में मंगलवार सुबह भाई के साथ बिस्किट लेने जा रहे बच्चे को तेज रफ्तार बोलेरो ने टक्कर मार दी। इस हादसे में बच्चे की मौत हो गई। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले को जांच में लिया।   कायथा थाना पुलिस के अनुसार, ग्राम मुंजा खेड़ी निवासी ओंकार सिंह का चार वर्षीय पुत्र नरेंद्र मंगलवार को अपने भाई के साथ बिस्किट लेने के लिए घर से कुछ दूरी पर बनी दुकान पर जा रहा था। उसी दौरान ग्राम काट बड़ोदिया से तेज रफ्तार में कायथा की ओर आ रही बोलेरो ने नरेंद्र को कुचल दिया। दुर्घटना के बाद भाई का शोर सुनकर परिवार और आसपास के लोग एकत्रित हो गए। गंभीर हालत में मासूम को स्थानीय अस्पताल ले जाया गया, जहां से उज्जैन रेफर किया गया। जिला अस्पताल पहुंचने से पहले रास्ते में मासूम की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि ग्रामीणों ने बोलेरो चालक को पकड़ लिया था, जिसे पुलिस के सुपुर्द किया गया। पुलिस चौकी ने मर्ग कायम कर बच्चे के शव का पोस्टमार्टम कराया और परिजनों को सौंपा।    

Dakhal News

Dakhal News 3 November 2020


bhopal, 92 control units, 88 ballot units, 284 vVipates changed, MP by-election

भोपाल। मुध्यप्रदेश में 19 जिलों के 28 विधानसभा क्षेत्रों में उप-निर्वाचन के लिए मंगलवार को पूरी सुरक्षा व्यवस्था एवं कोविड-19 की गाइड लाइन को ध्यान में रखते हुए मतदान जारी है। मॉकपोल और मतदान के दौरान 92 कंट्रोल यूनिट, 88 बैलेट यूनिट और 284 वीवीपैट खराब पाई गईं। इन मशीनों को तत्काल बदला गया और मतदान शुरू कराया गया।    अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अरुण कुमार तोमर ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि मतदान के पहले मॉकपोल के लिए 90 मिनट का समय निर्धारित था। मॉकपोल की प्रक्रिया अभ्यार्थियों के एजेंटों की उपस्थिति में संपन्न हुई। मॉकपोल के दौरान 63 कंट्रोल यूनिट, 65 बैलेट यूनिट एवं 196 वीवीपेट खराब पाई गई, जिन्हें बदला गया। इसके बाद सुबह सात बजे मतदान शुरू हुआ। मतदान के दौरान खराब हुई 29 बैलेट यूनिट, 23 कन्ट्रोल यूनिट एवं 88 वीवीपेट को बदला गया। इस प्रकार कुल 92 कंट्रोल यूनिट, 88 बैलेट यूनिट और 284 वीवीपैट को बदलकर मतदान सुचारू कराया गया।   उन्होंने बताया कि प्रदेश के 28 विधानसभा क्षेत्रों में प्रात: 9 बजे तक मतदान का औसत प्रतिशत 11.67 रहा। प्रात: 11 बजे की स्थिति में मतदान का औसत प्रतिशत 26.57 रहा। दोपहर 1 बजे तक 42.71 प्रतिशत औसत मतदान हुआ।

Dakhal News

Dakhal News 3 November 2020


bhopal, 92 control units, 88 ballot units, 284 vVipates changed, MP by-election

भोपाल। मुध्यप्रदेश में 19 जिलों के 28 विधानसभा क्षेत्रों में उप-निर्वाचन के लिए मंगलवार को पूरी सुरक्षा व्यवस्था एवं कोविड-19 की गाइड लाइन को ध्यान में रखते हुए मतदान जारी है। मॉकपोल और मतदान के दौरान 92 कंट्रोल यूनिट, 88 बैलेट यूनिट और 284 वीवीपैट खराब पाई गईं। इन मशीनों को तत्काल बदला गया और मतदान शुरू कराया गया।    अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अरुण कुमार तोमर ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि मतदान के पहले मॉकपोल के लिए 90 मिनट का समय निर्धारित था। मॉकपोल की प्रक्रिया अभ्यार्थियों के एजेंटों की उपस्थिति में संपन्न हुई। मॉकपोल के दौरान 63 कंट्रोल यूनिट, 65 बैलेट यूनिट एवं 196 वीवीपेट खराब पाई गई, जिन्हें बदला गया। इसके बाद सुबह सात बजे मतदान शुरू हुआ। मतदान के दौरान खराब हुई 29 बैलेट यूनिट, 23 कन्ट्रोल यूनिट एवं 88 वीवीपेट को बदला गया। इस प्रकार कुल 92 कंट्रोल यूनिट, 88 बैलेट यूनिट और 284 वीवीपैट को बदलकर मतदान सुचारू कराया गया।   उन्होंने बताया कि प्रदेश के 28 विधानसभा क्षेत्रों में प्रात: 9 बजे तक मतदान का औसत प्रतिशत 11.67 रहा। प्रात: 11 बजे की स्थिति में मतदान का औसत प्रतिशत 26.57 रहा। दोपहर 1 बजे तक 42.71 प्रतिशत औसत मतदान हुआ।

Dakhal News

Dakhal News 3 November 2020


bhopal, 92 control units, 88 ballot units, 284 vVipates changed, MP by-election

भोपाल। मुध्यप्रदेश में 19 जिलों के 28 विधानसभा क्षेत्रों में उप-निर्वाचन के लिए मंगलवार को पूरी सुरक्षा व्यवस्था एवं कोविड-19 की गाइड लाइन को ध्यान में रखते हुए मतदान जारी है। मॉकपोल और मतदान के दौरान 92 कंट्रोल यूनिट, 88 बैलेट यूनिट और 284 वीवीपैट खराब पाई गईं। इन मशीनों को तत्काल बदला गया और मतदान शुरू कराया गया।    अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अरुण कुमार तोमर ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि मतदान के पहले मॉकपोल के लिए 90 मिनट का समय निर्धारित था। मॉकपोल की प्रक्रिया अभ्यार्थियों के एजेंटों की उपस्थिति में संपन्न हुई। मॉकपोल के दौरान 63 कंट्रोल यूनिट, 65 बैलेट यूनिट एवं 196 वीवीपेट खराब पाई गई, जिन्हें बदला गया। इसके बाद सुबह सात बजे मतदान शुरू हुआ। मतदान के दौरान खराब हुई 29 बैलेट यूनिट, 23 कन्ट्रोल यूनिट एवं 88 वीवीपेट को बदला गया। इस प्रकार कुल 92 कंट्रोल यूनिट, 88 बैलेट यूनिट और 284 वीवीपैट को बदलकर मतदान सुचारू कराया गया।   उन्होंने बताया कि प्रदेश के 28 विधानसभा क्षेत्रों में प्रात: 9 बजे तक मतदान का औसत प्रतिशत 11.67 रहा। प्रात: 11 बजे की स्थिति में मतदान का औसत प्रतिशत 26.57 रहा। दोपहर 1 बजे तक 42.71 प्रतिशत औसत मतदान हुआ।

Dakhal News

Dakhal News 3 November 2020


bhopal, early November, cold shows sharp, cold will increase, coming days

भोपाल। मध्य प्रदेश में नवम्बर की शुरुआत के साथ ही सर्दी के तेवर तीखे हो गए हैं। पिछले आठ साल में पहली बार ऐसा हुआ है जब नवम्बर के पहले सप्ताह में ठंड के तेवर इतने तीखे हैं। राजधानी भोपाल में भी सर्दी ने असर दिखाना शुरू कर दिया है। दिन के समय भी अब ठंड का अहसास हो रहा है। वहीं, सुबह और रात के समय गर्म कपड़ों की जरुरत महसूस हो रही है।   मौसम विभाग की मानें तो पिछले दिनों उत्तर भारत में हुई बर्फबारी से पहाड़ी क्षेत्रों में कड़ाके की ठंड पडऩे लगी है। वहां से आ रही सर्द हवाओं ने राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश इलाकों में अचानक ठंड बढ़ा दी है। मौसम विज्ञानियों ने अगले तीन-चार दिन में न्यूनतम तापमान में तीन से चार डिग्री तक की गिरावट होने की संभावना जताई है।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक आरके अग्रवाल ने बताया कि अग्रवाल ने बताया कि वर्तमान में उत्तर और उत्तर-पश्चिम हवाएं 10 किमी. प्रति घंटा की रफ्तार से चल रही हैं। उत्तर भारत में ठंड का प्रभाव काफी बढ़ गया है। वहां से आ रही सर्द हवाओं से दिन और रात के तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है। अगले तीन-चार दिन में तापमान में और गिरावट होने के आसार हैं।

Dakhal News

Dakhal News 3 November 2020


bhopal, early November, cold shows sharp, cold will increase, coming days

भोपाल। मध्य प्रदेश में नवम्बर की शुरुआत के साथ ही सर्दी के तेवर तीखे हो गए हैं। पिछले आठ साल में पहली बार ऐसा हुआ है जब नवम्बर के पहले सप्ताह में ठंड के तेवर इतने तीखे हैं। राजधानी भोपाल में भी सर्दी ने असर दिखाना शुरू कर दिया है। दिन के समय भी अब ठंड का अहसास हो रहा है। वहीं, सुबह और रात के समय गर्म कपड़ों की जरुरत महसूस हो रही है।   मौसम विभाग की मानें तो पिछले दिनों उत्तर भारत में हुई बर्फबारी से पहाड़ी क्षेत्रों में कड़ाके की ठंड पडऩे लगी है। वहां से आ रही सर्द हवाओं ने राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश इलाकों में अचानक ठंड बढ़ा दी है। मौसम विज्ञानियों ने अगले तीन-चार दिन में न्यूनतम तापमान में तीन से चार डिग्री तक की गिरावट होने की संभावना जताई है।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक आरके अग्रवाल ने बताया कि अग्रवाल ने बताया कि वर्तमान में उत्तर और उत्तर-पश्चिम हवाएं 10 किमी. प्रति घंटा की रफ्तार से चल रही हैं। उत्तर भारत में ठंड का प्रभाव काफी बढ़ गया है। वहां से आ रही सर्द हवाओं से दिन और रात के तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है। अगले तीन-चार दिन में तापमान में और गिरावट होने के आसार हैं।

Dakhal News

Dakhal News 3 November 2020


dewas,Seven new ,Corona patients, met,12 arrived in their homes

देवास। मध्यप्रदेश के देवास जिले में जहां कोरोना के लगातार नये मामले सामने आ रहे हैं तो वहीं पुराने मरीज तेजी से स्वस्थ होकर अपने घर लौट रहे हैं। इसी क्रम में अब जिले में कोरोना के सात नये मरीज सामने आए हैं, जबकि 12 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंचे हैं।   देवास के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एमपी शर्मा ने बताया कि जिले में रविवार को 509 सैम्पल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई। इनमें सात नये लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है, जबकि 502 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। उन्होंने बताया कि रविवार को जिले में 12 मरीज कोरोना संक्रमण से मुक्त हुए  और उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर अपने घर रवाना किया गया। सभी मरीजों ने जाते समय जिला प्रशासन, अस्पताल के सभी चिकित्सक, कर्मचारी विशेष रूप से कोरोना वार्ड के ड्यूटी डॉक्टर नर्सिंग स्टाफ के सहयोग के लिए धन्यवाद दिया। चिकित्सकों द्वारा मरीजों से शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करने और सभी परिचितों को कोविड जैसे लक्षण दिखाई देने या बीमार होने पर तुरंत डॉक्टर से सम्पर्क करने की सलाह दी। डिस्चार्ज हो रहे मरीजों को अस्पताल की ओर से व्यक्तिगत सुरक्षा किट दी गई तथा उन्हें घरेलू एकांतवास में रहने की सलाह दी गई।    सीएमएचओ डॉ. शर्मा ने बताया कि जिले में अब तक कुल 1883 व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए। इनमें से अभी तक 1832 मरीज सफल उपचार के बाद कोरोना संक्रमण से मुक्त होकर अपने घर पहुंच चुके हैं। जिले में अब सक्रिय मरीज 28 है, जिनका उपचार चल रहा है। वहीं, जिले में अब तक कोरोना से 23 लोगों की मृत्यु हुई है। जिले में अब तक का कोविड-19 रिकवरी रेट 97.29 प्रतिशत तथा मोर्टीलिटी (मृत्युदर) 1.22 प्रतिशत है।

Dakhal News

Dakhal News 1 November 2020


khandwa, Big accident, averted, Bagmar railway station, two wagons loaded

खंडवा। खंडवा जिले के बगमार रेलवे स्टेशन पर रविवार को बड़ा हादसा टल गया। यहां स्टेशन पर खड़ी कोयले से भरी मालगाड़ी में के दो वैगनों पर आग लग गई। घटना के वक्त स्टेशन पर कोई यात्री गाड़ी खड़ी नहीं थी जिससे बड़ा हादसा टल गया। सूचना के बाद मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की दो गाडिय़ों ने आग पर काबू पाया। फिलहाल आग लगने के कारण अज्ञात है, पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुटी है।   जानकारी अनुसार रविवार सुबह करीब 10 बजे बगमार स्टेशन पर कोयले भरी मालगाड़ी के दो डिब्बों से आग लग गई। वैगन से आग की लपटें और धुंआ निकलते देख स्टेशन मास्टर ने तुरंत फायर ब्रिगेड और बोरगांव चौकी पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही तुरंत पंधाना और बोरगांव चौकी की पुलिस मौके पर पहुंची और फायर ब्रिगेड की मदद पर आग पर काबू पाने का प्रयास किया। मौके पर खंडवा और पंधाना से दो अग्निशामक वाहन बुलवाये गए, जिन्होंने करीब 3 घन्टे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। गनीमत रही कि स्टेशन पर कोई यात्री ट्रेन खड़ी नहीं थी जिससे बड़ा हादसा होने से टल गया। फिलहाल आग लगने के कारणों का पता नहीं चल सका है। पुलिस मामला दर्ज कर जांच कर रही है।

Dakhal News

Dakhal News 1 November 2020


bhopal, Tri-weekly ,special train, run between ,Ambedkar Nagar-Vaishnav Devi Katra

भोपाल। रेल प्रशासन द्वारा डॉक्टर अम्बेडकर नगर-श्री माता वैष्णव देवी कटरा के बीच आगामी नौ नवम्बर से अगली सूचना तक त्रि-साप्ताहिक (सप्ताह में तीन दिन) सुपरफास्ट स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया गया है। यह गाड़ी भोपाल मण्डल के संत हिरदाराम नगर, भोपाल, विदिशा, गंजबासौदा, बीना स्टेशनों पर हाल्ट लेकर गंतव्य को जाएगी।   भोपाल रेल मंडल के जनसम्पर्क अधिकारी आईए सिद्दीकी ने रविवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि गाड़ी संख्या 02919 डॉक्टर अम्बेडकर नगर - श्री माता वैष्णव देवी कटरा (त्रि-साप्ताहिक) सुपरफास्ट स्पेशल आगामी नौ नवम्बर से अगली सूचना तक प्रति सोमवार, बुधवार एवं शुक्रवार को डॉक्टर अम्बेडकर नगर स्टेशन से अपरान्ह 11.50 बजे रवाना होकर शाम 4.58 बजे संत हिरदाराम नगर, 5.20 बजे भोपाल, 6.08 बजे विदिशा, 6.40 बजे गंजबासौदा, 7.35 बजे बीना होते हुए अगले दिन शाम को 6.30 बजे श्री माता वैष्णव देवी कटरा स्टेशन पहुंचेगी।   इसी प्रकार गाड़ी संख्या 02920 श्री माता वैष्णव देवी कटरा-डॉक्टर अम्बेडकर नगर (त्रि- साप्ताहिक) सुपरफास्ट स्पेशल एक्सप्रेस आगामी 11 नवम्बर से अगली सूचना तक प्रति बुधवार, शुक्रवार एवं रविवार को श्री माता वैष्णव देवी कटरा स्टेशन से सुबह 06.55  बजे रवाना होकर अगले दिन सुबह 05.10 बजे बीना, 05.49 बजे गंजबासौदा, 06.16 बजे विदिशा, 07.20 बजे भोपाल, 08.03 बजे संत हिरदाराम नगर होते हुए इसी दिन दोपहर में 1.15 बजे डॉक्टर अम्बेडकर नगर स्टेशन पहुंचेगी।   उन्होंने बताया कि यह ट्रेन दोनों दिशाओं में इंदौर, देवास, उज्जैन, मक्सी, बेरछा, अकोदिया, शुजालपुर, कालापीपल, सिहोर, संत हिरदाराम नगर, भोपाल, विदिशा, गंजबासौदा, बीना, ललितपुर, बबीना, झांसी, दतिया, डबरा, ग्वालियर, मुरैना, धौलपुर, आगरा कैंट, मथुरा, कोसीकलां, पलवल, बल्लभगढ़, फरीदाबाद, हजरत निजामुद्दीन, नई दिल्ली, सोनोपत, पानीपत, करनाल, कुरुक्षेत्र, अंबाला कैंट, सरहिन्द, खन्ना, लुधियाना, जालंधर कैंट, दसुया, मुकरियां, पठानकोट कैंट, कठुआ, जम्मूतवी, राम नगर, ऊधमपुर, एवं चक रखवाल स्टेशनों पर रुकेगी। इस ट्रेन में 01 वातानुकूलित द्वितीय श्रेणी, 06 वातानुकूलित तृतीय श्रेणी, 08 शयनयान श्रेणी, 04 सामान्य श्रेणी, 01 बफेट कार एवं 02 एसएलआर सहित कुल 22 डिब्बे रहेंगे। रेल प्रशासन ने यात्रियों से अपील की है कि यह गाड़ी पूर्णत: आरक्षित है, इसलिए इसमें कन्फर्म टिकट होने पर ही यात्रा करें।

Dakhal News

Dakhal News 1 November 2020


indore,89 new ,corona cases,one person also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना के नये मरीजों की संख्या में लगातार कमी देखने को मिल रही है। सितम्बर और अक्टूबर के शुरुआती दिनों में यह संख्या 400 के पार पहुंच रही थी, वह अब 100 से नीचे आ गई है। यहां बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना के 89 नये मामले सामने आए हैं, जबकि एक व्यक्ति की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 34,042 और मृतकों की संख्या 482 हो गई है।    इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने शनिवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा शुक्रवार देर रात 3994 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 89 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 34,042 हो गई है। वहीं, इंदौर में एक व्यक्ति की मौत की पुष्टि हुई है। अब यहां मृतकों की संख्या 682 हो गई है। हालांकि, इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 30,531 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 2829 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है। इंदौर में कोरोना का रिकवरी रेट 90 फीसदी है।

Dakhal News

Dakhal News 31 October 2020


indore,89 new ,corona cases,one person also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना के नये मरीजों की संख्या में लगातार कमी देखने को मिल रही है। सितम्बर और अक्टूबर के शुरुआती दिनों में यह संख्या 400 के पार पहुंच रही थी, वह अब 100 से नीचे आ गई है। यहां बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना के 89 नये मामले सामने आए हैं, जबकि एक व्यक्ति की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 34,042 और मृतकों की संख्या 482 हो गई है।    इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने शनिवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा शुक्रवार देर रात 3994 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 89 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 34,042 हो गई है। वहीं, इंदौर में एक व्यक्ति की मौत की पुष्टि हुई है। अब यहां मृतकों की संख्या 682 हो गई है। हालांकि, इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 30,531 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 2829 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है। इंदौर में कोरोना का रिकवरी रेट 90 फीसदी है।

Dakhal News

Dakhal News 31 October 2020


indore,89 new ,corona cases,one person also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना के नये मरीजों की संख्या में लगातार कमी देखने को मिल रही है। सितम्बर और अक्टूबर के शुरुआती दिनों में यह संख्या 400 के पार पहुंच रही थी, वह अब 100 से नीचे आ गई है। यहां बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना के 89 नये मामले सामने आए हैं, जबकि एक व्यक्ति की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 34,042 और मृतकों की संख्या 482 हो गई है।    इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने शनिवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा शुक्रवार देर रात 3994 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 89 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 34,042 हो गई है। वहीं, इंदौर में एक व्यक्ति की मौत की पुष्टि हुई है। अब यहां मृतकों की संख्या 682 हो गई है। हालांकि, इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 30,531 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 2829 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है। इंदौर में कोरोना का रिकवरी रेट 90 फीसदी है।

Dakhal News

Dakhal News 31 October 2020


Katni, City bus services ,will start , January, 6 routes , operational , first phase

कटनी। शहरी लोक परिवहन कम्पनी दीनदयाल कटनी बस सर्विसेस द्वारा कटनी नगर बस सेवा की इन्टर और इन्ट्रा सर्विसेस अगले जनवरी माह से शुरु की जायेगी। प्रथम चरण के क्लस्टर में 6 रुटों पर सूत्र बस सेवा संचालन के लिये बस ऑपरेटर विश्वास इन्टरप्राईजेज देवास से अनुबंध किया जा रहा है। इस आशय की जानकारी गुरुवार को कलेक्टर शशिभूषण सिंह की अध्यक्षता में सम्पन्न शहरी लोक परिवहन कम्पनी की निदेशक मण्डल की बैठक में दी गई। इस मौके पर आयुक्त नगर निगम सतेन्द्र धाकरे, एसडीएम बलबीर रमन, सीएसपी एस.के. शुक्ला, यातायात निरीक्षक राघवेन्द्र भार्गव, चीफ ऑपरेटिंग ऑफीसर बस सर्विसेस योगेश पवार, परिवहन अधिकारी महेशदत्त मिश्रा मौजूद रहे।   बैठक में कलेक्टर को कम्पनी का अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक मनोनीत करते हुये 6 सदस्यीय निदेशक मण्डल का पुर्नगठन किया गया। कम्पनी के कामकाज संचालन के लिये आयुक्त नगर निगम को 10 लाख तक और अध्यक्ष प्रबंध निदेशक को 50 लाख रुपये तक के वित्तीय अधिकार भी प्रत्यायोजित किये गये। बैठक में बताया गया कि झिंझरी में बस स्टेण्ड के निर्माण के लिये भूमि आवंटन कर शासन को 5 करोड़ रुपये का प्रस्ताव निर्माण के लिये भेजा गया है। शहर में इन्ट्रासिटी बस के मार्गों पर 26 बस स्टॉप बनाने भूमि का चिन्हांकन कर बस स्टेण्ड निर्माण के लिये 10 वर्षों के अनुबंध पर निविदा जारी कर दी गई है। शहरी बस स्टॉप एवं बस स्टैण्ड पर पीपीपी मोड पर वॉटर एटीएम और बैंक एटीएम भी स्थापित किये जायेंगे।   कम्पनी को डीयूटीएफ फण्ड में 2 करोड़ 16 लाख रुपये की राशि आवंटित की गई है। जिसमें यातायात सुधार और ब्लैक स्पॉट के परिशोधन के लिये झिंझरी से पीरबाबा ब्रिज तक रोड लाईन मार्किंग, डेलीनेटर, आरपीएम, फ्लेक्सिबल मीडियन मार्कर, रोड साईनेज लगवाने के विभिन्न कार्यों के लिये 39 लाख 38 हजार की स्वीकृति दी गई है।    दीनदयाल कटनी बस सर्विसेस लिमिटेड द्वारा क्लस्टर के प्रथम चरण में 6 रुटों पर इन्ट्रा और इन्टर बस सर्विस के लिये अनुबंध की कार्यवाही की जा रही है। इनमें कटनी से इन्दौर, कटनी से छिंदवाड़ा, कटनी से कान्हा, कटनी से बालाघाट, अन्तर शहरी एसी स्टेण्डर्ड बस सर्विस और शहर में बस स्टेण्ड से चाका से पिपरौंध और बिलहरी से कटनी बस स्टेण्ड की इन्टर बस सेवा के लिये विश्वास ट्रान्सपोर्ट देवास से अनुबंध किया जा रहा है। कम्पनी द्वारा भविष्य में द्वितीय क्लस्टर में 8 रुटों पर नगर बस सेवायें प्रस्तावित की गई हैं। जिनमें कटनी से कैमोर, कटनी से रीठी, कटनी से बड़वारा, कटनी से बहोरीबंद, कटनी जंक्शन से चाका, बस स्टेण्ड से निवार, जुहला से एनकेजे और रेल्वे स्टेशन कटनी से रेल्वे स्टेशन-पिपरौंध शामिल हैं।   ट्रान्सपोर्ट नगर में शीघ्र शिफ्टिंग करायें : कलेक्टर नगर निगम, एसडीएम, यातायात पुलिस की संयुक्त बैठक में कलेक्टर शशिभूषण सिंह ने कटनी शहर में सुगम, सुरक्षित यातायात के संबंध में अधिकारियों से सुझाव लेकर चर्चा की। उन्‍होंने कहा कि शहर के व्यवस्थित यातायात के लिये ट्रान्सपोर्ट नगर में ट्रान्सपोर्टर्स की शीध्र शिफ्टिंग करायें। एसडीएम कटनी और नगर निगम तथा यातायात प्रभारी ट्रान्सपार्ट व्यवसायिकों से पहल कर उन्हें ट्रान्सपोर्ट नगर भेजें। कलेक्टर ने कहा कि ट्रान्सपोर्ट नगर शहर के समीप और पानी, बिजली, सड़क, पार्क और शौचालय की आवश्यक सुविधाओं से परिपूर्ण हो चुका है। नगर निगम द्वारा 60 ट्रान्सपोर्ट व्यवसायिकों के प्लाटों की रजिस्ट्री भी कराई जा चुकी है। कलेक्टर सिंह ने यातायात प्रभारी के सुझाव पर लोडर एवं अन्य बड़े वाहनों की पार्किंग तिलक राष्ट्रीय स्कूल के पीछे के मैदान में कराने के निर्देश दिये। उन्‍होंने कहा कि यातायात पुलिस और नगर निगम के अधिकारी शहर के सुव्यवस्थित और सुगम यातायात के लिये प्रस्ताव बनायें।

Dakhal News

Dakhal News 29 October 2020


gwalior, Drug inspector ,demanded bribe , make license, red handed arrested

ग्वालियर। ग्वालियर लोकायुक्त पुलिस की टीम ने गुरुवार को कलेक्ट्रेट स्थित औषधीय विभाग में पदस्थ लिपिक को 25 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार किया था। बताया गया है कि यह रिश्वत ड्रग इंस्पेक्टर ने दवा मार्केटिंग का लाइसेंस बनवाने के एवज में फरियादी से रिश्वत की मांग की थी, जिसकी शिकायत लोकायुक्त पुलिस से की गई थी। इसके बाद लोकायुक्त पुलिस की टीम ने योजनाबद्ध तरीके से कार्रवाई को अंजाम दिया। फिलहाल आगे की कार्रवाई जारी है।   लोकायुक्त पुलिस के अनुसार, जिले के ग्राम लधेड़ी निवासी महेन्द्र पाल ने शिकायत करते हुए बताया कि उसने दवा मार्केटिंग का लाइसेंस बनवाने के लिए आवेदन किया था। इसके लिए उसने 3150 रुपये की रसीद बनवाई और जब वह कलेक्ट्रेट स्थित औषधीय विभाग पहुंचा तो वहीं उसकी मुलाकात ड्रग इस्पेंटर अजय ठाकुर से हुई। उन्होंने लाइसेंस बनाने के एवज में 30 हजार रुपये की रिश्वत की मांग की। इसके बाद कई दिनों तक उनके बीच पैसे के लेन-देन को लेकर बातचीत हुई और अंत में 25 हजार रुपये में सौदा तय हो गया। फरियादी महेन्द्र पाल ने आफिस आकर पैसे देने की बात कही तो ड्रग इंस्पेक्टर अजय ठाकुर ने उसे आफिस आने से मना कर दिया और कहा कि मैं तुम्हारे पास आकर पैसे ले लूंगा। फरियादी ने अपनी शिकायत के साथ इस बातचीत की रिकार्डिंग भी लोकायुक्त को सौंपी।   इसके बाद लोकायुक्त की टीम ने गुरुवार को योजना बनाकर महेन्द्र पाल को पैसे देने के लिए औषधीय कार्यालय भेजा, लेकिन वहां ड्रग इंस्पेक्टर अजय ठाकुर नहीं मिले तो उसने फोन पर बातचीत की। इसके बाद उन्होंने आफिस के लिपिक अयूब खान को पैसे देने की बात कही। फरियादी ने पैसे लिपिक को दिये, उसी समय लोकायुक्त की टीम ने दबिश देकर उसे 25 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार कर लिया। लोकायुक्त पुलिस ने ड्रग इंस्पेक्टर अजय ठाकुर और लिपिक अयूब खान के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया है और आगे की कार्रवाई की जा रही है।

Dakhal News

Dakhal News 29 October 2020


bhopal, cold all over , state , knocked down, cold in the coming days

भोपाल। मानसून की विदाई के बाद अब पूरे मध्यप्रदेश में मौसम का मिजाज बदल रहा है। प्रदेश के लगभग सभी जिलों में ठंड ने दस्तक दे दी है। वहीं मौसम लगातार अपने रंग बदलता नजर आ रहा है। कभी एकदम से दिन में उमस तो कभी गुलाबी ठंड देखने को मिल रही है। यह पहली बार ही है कि अक्टूबर का महीना खत्म होने जा रहा है और दिन में अभी भी तेज धूप हो रही है।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने गुरुवार को जानकारी देते हुए बताया कि वेस्टर्न डिस्टरबेंस के कारण जब तक कश्मीर घाटी और उत्तराखंड में बर्फबारी या बारिश नहीं होगी, तब तक मध्यप्रदेश में तापमान सामान्य से कम नहीं होगा। माना जा रहा है कि दिवाली के बाद दिन का तापमान सामान्य से कम होने का अनुमान है। इसके बाद ही दिन में ठंडक महसूस होनी शुरु हो जाएगी।   बात तापमान की करें तो यहां पर रात का तापमान 17 डिग्री से कम और सामान्य रहा। ठंडी हवा के चलने के कारण लोगों को गुलाबी ठंड महसूस होने लगी है। दिन का तापमान सामान्य से 2 डिग्री ज्यादा हो रहा है। दिन में धूप तेज हो रही है। मौसम वैज्ञानिक कहते हैं कि ऐसा मौसम 15 नवंबर तक बना रह सकता है। दिन में ठंडक दीपावली के बाद ही संभव है। रात का तापमान 16.8 डिग्री दर्ज किया गया। बीते दिन का तापमान 32.8 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से 1 डिग्री ज्यादा रहा।

Dakhal News

Dakhal News 29 October 2020


Jabalpur, Trap cameras,installed, catch leopard, pictures , recorded dogs

जबलपुर। वेटरनरी कॉलेज कैंपस में दिखाई दिये तेंदुए को पकड़ने के लिए लगाए गए ट्रैप कैमरों में बुधवार सुबह तक भी तेंदुए की तस्वीर रिकॉर्ड नहीं हो सकी है। कैमरों में कुत्तों, मवेशियों की तस्वीरें ही हैं। इसके बावजूद वन अधिकारियों को उम्मीद है कि तेंदुए को जल्दी ही पकड़ लिया जाएगा।    वन परिक्षेत्र अधिकारी पीएल बरकड़े ने बताया कि रविवार-सोमवार की रात को वेटरनरी कॉलेज कैंपस की स्माल एनिमल रिसर्च लैब में लगे सीसीटीवी कैमरे में तेंदुआ की तस्वीरें आईं हैं। इस आधार पर वेटरनरी कॉलेज प्रबंधन ने वन विभाग को सूचना दी। वन विभाग अब कॉलेज कैंपस से तेंदुआ को पकड़ने के प्रयास कर रहा है। कॉलेज कैंपस में ट्रैप कैमरे लगाने के साथ ही एक पिंजरा भी रखा गया है। मंगलवार-बुधवार की रात ट्रैप कैमरों में तेंदुआ की आवाजाही होती दर्ज नहीं हुई, लेकिन कुछ कुत्तों की तस्वीरें जरूर आईं हैं।   इधर, इस बारे में कान्हा नेशनल पार्क के वन्यजीव विशेषज्ञ डॉ. संदीप अग्रवाल का कहना है कि वेटरनरी कॉलेज कैंपस में तेंदुआ आने की खबर पाकर अब यहां लोगों की आवाजाही होने लगी है। इससे तेंदुए को पकड़ने के काम में परेशानी आ रही है। उन्होंने उम्मीद जताई कि एक-दो दिनों में कॉलेज कैंपस से तेंदुए को जरूर पकड़ लेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 28 October 2020


indore,148 new cases, corona found, not a single death

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना के नये मरीजों की संख्या लगातार कमी देखने को मिल रही है। सितम्बर और अक्टूबर के शुरुआती दिनों में यह संख्या 400 के पार पहुंच रही थी, वह अब 150 से नीचे आ गई है। यहां बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना के 148 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 33,719 हो गई है। राहत की खबर यह है कि इंदौर में लगातार दूसरे दिन कोरोना से एक भी मौत नहीं हुई है। यहां अब तक कोरोना से 469 लोगों की मौत हुई है।    इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने बुधवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा मंगलवार देर रात 5350 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 148 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 33,719 हो गई है। हालांकि, इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 29,799 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 3241 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है। इंदौर में कोरोना का रिकवरी रेट 88.37 है।   प्रभारी सीएमएचओ के मुताबिक, शहर में 24 मार्च को कोरोना से पहली मौत हुई थी, उसके बाद से इन सात महीनों में 2 से लेकर 7 मौतें तक दर्ज हुईं, लेकिन कोरोना का असर कम हो रहा है और नये मरीजों की संख्या घटने का साथ मृतकों की संख्या शून्य पर आ गई है। यहां दो दिन से एक भी मरीज की कोरोना से मौत नहीं हुई है। इंदौर का कोरोना से मृत्यु की दर 2.02 फीसदी है।

Dakhal News

Dakhal News 28 October 2020


chindwara, First farmer train ,from Chhindwara to Howrah

छिंदवाड़ा। रेल मंत्रालय द्वारा किसानों की आर्थिक स्थिति सुधारने और ट्रांसपोर्ट आसान करने के मकसद से किसान ट्रेनों का संचालन किया जा रहा है। इसी क्रम में बुधवार सुबह 5.00 बजे छिंदवाड़ा स्टेशन से हावड़ा के लिए रवाना हुई। यह ट्रेन नागपुर होते हुए हावड़ा पहुंचेगी।    जानकारी के मुतािबक, इस ट्रेन के लिए छिंदवाड़ा से किसानों द्वारा 40 टन माल की बुकिंग की गई, जबकि सौसर में दस टन माल बुक किया गया। इस ट्रेन में 4 वीपी तथा 12 जीएस ​डिब्बे हैं। वीपी में 23, एसएलआर में 8 तथा जीएस डिब्बों में 10 टन माल बुक किया जा सकता है। इस ट्रेन के शुरू होते ही भाजपा और कांग्रेस के बीच श्रेय लेने की होड़ भी शुरू हो गई है। क्षेत्र के सांसद और कमलनाथ के पुत्र नकुल नाथ ने मीडिया को जारी बयान में कहा है कि उनके प्रयास से ये ट्रेन शुरू हुई है। वहीं, भाजपा ने इसकी श्रेय लेकर केन्द्र सरकार को धन्यवाद दिया है।   भाजपा जिला अध्यक्ष विवेक बंटी साहू ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन व सहयोग से केन्द्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल, जिले के प्रभारी सांसद कैलाश सोनी के प्रयासों से छिन्दवाड़ा जिले से हावड़ा (कलकत्ता) प्रथम किसान ट्रेन का शुभारंभ हुआ है। ये ट्रेन जिले व आसपास के कृषकों के लिये मील का पत्थर साबित होगी। जिले के किसान देश के कोने-कोने में सब्जियां व फल भेज सकेंगे। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, केन्द्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल, के साथ ही रात भर जागकर ट्रेन के लिये कार्यरत कर्मचारियों का आभार जताया है। ट्रेन के शुभारम्भ अवसर पर जोनल सदस्य सत्येन्द्र ठाकुर,किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष संजय सक्सेना जी नागपुर से आये डीसीएम अनुराग सिंह, स्टेशन प्रबंधक संतोष श्रीवास, जीसीआई अजीत कुमार, रेल्वे के सचिव राजकिशोर तिवारी, हेल्थ इंस्पेक्टर आशीष अल्डक, जागेन्द्र सोलंकी व अन्य रेल अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 28 October 2020


bhopal, State Election Commission, targets eligible ,people not deprived ,voting

भोपाल । राज्य निर्वाचन आयोग का मुख्य उद्देश्य है कि चुनाव में पात्र व्यक्ति मतदान से वंचित नहीं रहे और अपात्र व्यक्ति मतदान नहीं कर सके। यह बात राज्य निर्वाचन आयुक्त बसंत प्रताप सिंह ने मंगलवार को वर्ष 2019 बैच के प्रोबेशनर्स आई.ए.एस. के लिए आयोग में आयोजित ब्रीफिंग सत्र में कही। सिंह ने कहा कि आगामी महीनों में होने वाले नगरीय निकाय और पंचायत निर्वाचन में आप लोगों की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। उन्होंने कहा कि यहां दी जा रही जानकारी को गंभीरता से लें। कोई संदेह हो तो उसे दूर कर लें।   सिंह ने कहा कि राज्य निर्वाचन आयोग के लिए नगरीय निकाय और पंचायत निर्वाचन महत्वपूर्ण होते हैं। आयोग का गठन वर्ष 1994 में हुआ है। यह स्वायत्त संस्था है। आयोग लगभग 4 लाख पदों के लिए निर्वाचन करवाता है। इसमें महापौर, अध्यक्ष, पार्षद, जिला पंचायत सदस्य, जनपद सदस्य, सरपंच और पंच के पद शामिल हैं।   ब्रीफिंग सत्र में आयोग में अवर सचिव प्रदीप शुक्ला ने नगरीय निकायों की चुनाव प्रक्रिया की जानकारी दी। अपर सचिव राजेश यादव ने ईव्हीएम और दीपक नेमा ने निर्वाचन से संबंधित विभिन्न आईटी एप्लीकेशन की जानकारी दी। इस दौरान राज्य निर्वाचन आयोग के सचिव दुर्गविजय सिंह, ओएसडी श्रीमती सुनीता त्रिपाठी, उप सचिव अरूण परमार सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Dakhal News

Dakhal News 27 October 2020


bhopal, State Election Commission, targets eligible ,people not deprived ,voting

भोपाल । राज्य निर्वाचन आयोग का मुख्य उद्देश्य है कि चुनाव में पात्र व्यक्ति मतदान से वंचित नहीं रहे और अपात्र व्यक्ति मतदान नहीं कर सके। यह बात राज्य निर्वाचन आयुक्त बसंत प्रताप सिंह ने मंगलवार को वर्ष 2019 बैच के प्रोबेशनर्स आई.ए.एस. के लिए आयोग में आयोजित ब्रीफिंग सत्र में कही। सिंह ने कहा कि आगामी महीनों में होने वाले नगरीय निकाय और पंचायत निर्वाचन में आप लोगों की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। उन्होंने कहा कि यहां दी जा रही जानकारी को गंभीरता से लें। कोई संदेह हो तो उसे दूर कर लें।   सिंह ने कहा कि राज्य निर्वाचन आयोग के लिए नगरीय निकाय और पंचायत निर्वाचन महत्वपूर्ण होते हैं। आयोग का गठन वर्ष 1994 में हुआ है। यह स्वायत्त संस्था है। आयोग लगभग 4 लाख पदों के लिए निर्वाचन करवाता है। इसमें महापौर, अध्यक्ष, पार्षद, जिला पंचायत सदस्य, जनपद सदस्य, सरपंच और पंच के पद शामिल हैं।   ब्रीफिंग सत्र में आयोग में अवर सचिव प्रदीप शुक्ला ने नगरीय निकायों की चुनाव प्रक्रिया की जानकारी दी। अपर सचिव राजेश यादव ने ईव्हीएम और दीपक नेमा ने निर्वाचन से संबंधित विभिन्न आईटी एप्लीकेशन की जानकारी दी। इस दौरान राज्य निर्वाचन आयोग के सचिव दुर्गविजय सिंह, ओएसडी श्रीमती सुनीता त्रिपाठी, उप सचिव अरूण परमार सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Dakhal News

Dakhal News 27 October 2020


bhopal, Due to La-Nina, tremendous cold, Madhya Pradesh ,will start chilling

भोपाल। अक्टूबर माह के अंत में भले ही रात में गुलाबी ठंड का अहसास हो रहा है, लेकिन नवंबर में ठंड के तेवर काफी तीखे होने के संकेत मिले हैं। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि प्रशांत महासागर में ला-निना प्रभाव दिखने लगा है। इसके असर से नवंबर-दिसंबर माह में मध्य प्रदेश में भी जबरदस्त ठंड पड़ेगी।   वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने मंगलवार को बताया कि ला-निना धीरे-धीरे मजबूत हो रहा है। इसके असर से बेहतर ठंड के मौसम के लिए अनुकूल पश्चिमी विक्षोभ के आने की संख्या तो बढ़ेगी। साथ ही वे अधिक तीव्रता वाले होंगे। इससे नवंबर-दिसंबर माह में उत्तर भारत के पहाड़ी क्षेत्रों में बरसात के साथ जबरदस्त बर्फबारी होगी। पहाड़ों पर बर्फ जमने से सर्द उत्तरी हवाएं ठंड में इजाफा करेंगी।   क्या है अल-निनो और ला-निनामौसम विज्ञानी शुक्ला ने बताया कि अल-निनो प्रभाव मध्य एवं पूर्वी प्रशांत महासागर और में हवा एवं समुद्र की सतह के तापमान में अनियमितता के कारण भूमध्य रेखीय एवं उप भूमध्य रेखीय क्षेत्र के मौसम पर असर डालता है। यह दक्षिण-पश्चिम मानसून पर विपरीत प्रभाव डालता है। इसके विपरीत ला-निना के प्रभाव का कारण समुद्री सतह का तापमान पूर्वी प्रशांत महासागर के सामान्य तापमान से कम होना होता है। इसका प्रभाव भी भूमध्य रेखीय एवं उप भूमध्य रेखीय क्षेत्र में पड़ता है।   जनवरी में भी रहेगा असरउन्होंने बताया कि नवंबर-दिसंबर माह में ठंडे भूमध्य रेखीय समुद्र सतही तापमान के कारण मध्यम ला-निनों की संभावना है। इसका प्रभाव-जनवरी-2021 में रहने की संभावना है। सामान्य तौर पर ला-निनो कोल्ड विंटर के लिए जाना जाता है। इसके प्रभाव से वायुमंडलीय हवा के ऊपरी भाग के पैटर्न में बदलाव के आसार हैं। जिसके कारण पश्चिमी विक्षोभ की संख्या में वृद्धि होगी। इससे उत्तर भारत में वर्षा तथा बर्फबारी की आवृति अधिक होगी। इस वजह से उत्तर-पश्चिमी भारत एवं मप्र में उत्तरी हवाओं के आने के कारण कड़ाके की ठंड पडऩे की संभावना है।

Dakhal News

Dakhal News 27 October 2020


bhopal, MP 3.3 magnitude, earthquake hits, Seoni district

भोपाल। मध्यप्रदेश के सिवनी जिले में मंगलवार तडक़े जब लोग अपने घरों में सो रहे थे, तभी हल्के भूकम्प के झटके महसूस किये गये। इससे लोगों में हडक़म्प का माहौल उत्पन्न हो गया और लोग घरों से निकलकर बाहर आ गये। भोपाल मौसम विभाग के विज्ञानी वेदप्रकाश सिंह ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि सिवनी जिले के 21.92 उत्तरी अक्षांश 79.50 पूर्वी देशांतर के निकट 3.3 रिक्टर तीव्रता का भूकंप दर्ज किया गया है। भूकंप का केंद्र (एपी सेंटर) 15 किलोमीटर गहराई में स्थित था। हालांकि, इस भूकंप से जान-माल का नुकसान नहीं हुआ है।   जानकारी के मुताबिक, जिले के डूंडासिवनी नगर सहित आसपास के इलाकों में मंगलवार को तडक़े करीब चार बजे हिस्सों में भूकंप जैसे कम्पन झटके महसूस किए गए। इस दौरान अपने घरों में गहरी नींद में सो रहे लोगों को तेज आवाज के साथ धरती हिलने का अहसास हुआ और वे घबराकर घरों से बाहर आ गये। इसके बाद झटकों से नाराज लोग डूंडासिवनी थाने के सामने इकट्ठे हो गए और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर विरोध जताया। लोगों का कहना है कि शहर में बढ़ते भूकंप के झटकों का कारण पता लगाने में प्रशासन नाकाम साबित हो रहा है।   बताया जा रहा है कि सिवनी शहर के विभिन्न क्षेत्रों में कंपन के झटके महसूस होने का सिलसिला तीन माह से चल रहा है। लोगों का कहना है कि लगातार महसूस किए जा रहे झटकों से घर व भवन को नुकसान होने की संभावना बनी हुई है। कई लोगों का दावा है कि झटकों से घर के ऊपरी हिस्से की दीवारों में गहरी दरारें आ रही हैं। हालाकि, अब तक झटकों से कोई बड़े नुकसान की बात सामने नहीं आई है। इससे पहले 5 सितम्बर को सुबह 11.37 फिर दोपहर करीब डेढ़ बजे दो बार भूकंप जैसे झटके महसूस किए गए थे। फिर अगस्त माह में भी लोगों ने 4 से 5 बार कम्पन महसूस किया। मंगलवार को फिर यहां भूकम्प के झटके महसूस हुए। इससे लोगों में खासी नाराजगी देखने को मिल रही है और वे सोशल मीडिया पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 27 October 2020


bhopal, Bad weather, Madhya Pradesh, night temperature reached

भोपाल। मध्य प्रदेश में मौसम में ठंडक महसूस की जाने लगी है। राजधानी भोपाल में शुक्रवार की रात से मौसम में गिरावट दर्ज की गई। शाम ढलने के बाद तीन घंटे के अंदर पारा 7.2 डिग्री तक लुढक़ा। जहां शाम 5:30 बजे पारा 30.2 था, वही रात 8:30 बजे तक 23 डिग्री तक पहुंचा। जबकि प्रदेश में सर्वाधिक अधिकतम तापमान 36 डिग्री सेल्सियस नौगॉव, दमोह, दतिया में दर्ज किया गया। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि आसमान से बादल भी छंट गए हैं और रात के वक्त हवा का रुख भी बदल चुका है। इस वजह से तापमान तेजी से लुढक़ा है। आने वाले दिनों में तापमान में और ज्यादा गिरावट आ सकती है। जिसके कारण मौसम में रूखापन महसूस किया जाएगा।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने शनिवार को जानकारी देते हुए बताया कि बंगाल की खाड़ी में बने सिस्टम के कारण अरब सागर से नमी आ रही थी। इसलिए हवा का रुख पूर्वी बना हुआ था। इसी वजह से बादल छाए हुए थे और यही कारण है कि रात में पारा नहीं गिर रहा था। शनिवार को न्यूनतम तापमान में 0.3 डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी दर्ज हुई, लेकिन इस बढ़ोतरी से रात में होने वाली ठंडक पर असर नहीं पड़ा। रात में ठंडक बरकरार रही। साथ ही सुबह हलकी धुंधी भी छाई रही है। न्यूनतम तापमान 17.3 डिसे रिकार्ड हुआ। सामान्य से 0.9 डिसे अधिक रहा। मौसम विभाग के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ के हिमालय के ऊपर से गुजरने पर अंचल में फिर से बादल छा सकते हैं।   ग्वालियर- चंबल संभाग में बारिश की संभावनाबंगाल की खाड़ी में अति कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। अफगानिस्तान से होते हुए एक पश्चिमी विक्षोभ आ रहा है। पश्चिमी विक्षोभ की बंगाली खाड़ी के सिस्टम की वजह से गति धीमी हो गई है। कम दवाब का क्षेत्र पूर्वोत्तर राज्यों की ओर बढ़ेगा, उसी दौरान पश्चिमी विक्षोभ हिमालय से गुजरेगा। इस वजह से अंचल के मौसम में बदलाव आएगा। 25 व 26 अक्टूबर को मुरैना, श्योपुर, शिवपुरी में बारिश के आसार बन सकते हैं, लेकिन ग्वालियर में बादल छाने के आसार रहेंगे। बादल छाने पर रात के तापमान में बढ़ोतरी होगी। जब आसमान साफ होगा, उसके बाद ग्वालियर में फिर से तापमान में गिरवाट आएगी।

Dakhal News

Dakhal News 24 October 2020


indore, 271 new cases, corona, 6 people died

इंदौर। मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना संक्रमित मरीजों और इस महामारी से मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यहां बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना के 271 नये मामले सामने आए हैं, जबकि छह लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 33,054 और मृतकों की संख्या 674 हो गई है।  इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने शनिवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा शुक्रवार देर रात 5477 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 271 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 33,054 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से छह लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 674 हो गई है। हालांकि, इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 28,901 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 3479 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 24 October 2020


bhopal, Tri-weekly ,special train ,between Bhopal-Pratapgarh, start from Sunday

भोपाल। रेल प्रशासन द्वारा भोपाल-प्रतापगढ़-भोपाल के बीच त्रि-साप्ताहिक सुपरफास्ट एक्सप्रेस स्पेशल चलाने का निर्णय लिया है। यह स्पेशल ट्रेन रविवार, 25 अक्टूबर से आगामी सूचना अपने नियमित गाड़ी संख्या की निर्धारित समय-सारणी के अनुसार चलाई जाएगी।    भोपाल मंडल के जनसम्पर्क अधिकारी आईए सिद्दीकी ने शनिवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि गाड़ी संख्या 02183 भोपाल-प्रतापगढ़ (त्रि-साप्ताहिक) सुपरफास्ट स्पेशल एक्सप्रेस रविवार, 25 अक्टूबर से अगली सूचना तक प्रति मंगलवार, शुक्रवार एवं रविवार को भोपाल स्टेशन से शाम 7.15 बजे रवाना होकर अगले दिन सुबह 09.00 बजे प्रतापगढ़ स्टेशन पहुंचेगी। इसी प्रकार गाड़ी संख्या 02184 प्रतापगढ़- भोपाल (त्रि- साप्ताहिक) सुपरफास्ट स्पेशल एक्सप्रेस सोमवार, 26 अक्टूबर से अगली सूचना तक प्रति सोमवार, बुधवार एवं शनिवार को प्रतापगढ़ स्टेशन शाम 7.10 बजे रवाना होकर अगले दिन सुबह 08.50 बजे भोपाल स्टेशन पहुंचेगी।   उन्होंने बताया कि यह ट्रेन नियमित गाड़ी संख्या 12183/12184 भोपाल-प्रतापगढ़-भोपाल एक्सप्रेस की निर्धारित समय-सारणी एवं दिन के अनुसार चलेगी। यह स्पेशल ट्रेन दोनों दिशाओं में विदिशा, बीना, ललितपुर, झांसी, उरई, कानपुर सेंट्रल, लखनऊ, रायबरेली, जैस एवं अमेठी स्टेशनों पर रुकेगी। इस ट्रेन में 01 वातानुकूलित द्वितीय श्रेणी, 04 वातानुकूलित तृतीय श्रेणी, 12 शयनयान श्रेणी, 04 सामान्य श्रेणी, 02 एसएलआर/डी सहित कुल 23 डिब्बे रहेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 24 October 2020


Ujjain,Release order issued, admitting ,crimes ,36 undertrials ,Central Jail

उज्जैन। जिला एवं सत्र न्यायाधीश एनपी सिंह के निर्देश पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा उज्जैन के भैरवगढ़ स्थित केन्द्रीय जेल भैरवगढ़ में गुरुवार को खुली बार्गेनिंग लोक अदालत का आयोजन किया गया। इस दौरान केन्द्रीय जेल के 36 विचाराधीन कैदियों द्वारा जुर्म स्वीकार करने पर उनकी रिहाई के आदेश जारी किये गये।    जिला विधिक सहायता अधिकारी दिलीपसिंह मुझाल्दा ने यह जानकारी देते हुए बताया कि केन्द्रीय जेल में आयोजित लोक अदालत में विभिन्न न्यायालयों में विचाराधीन बन्दियों के लगभग 70 प्रकरणों को रखा गया, जिसमें से 30 प्रकरणों में 36 विचाराधीन बन्दियों द्वारा जुर्म स्वीकार कर लिये जाने के कारण उनके प्रकरणों को समाप्त किया गया और तत्काल उनकी रिहाई के आदेश जारी किये गये। रिहा होकर घर जाने वाले बन्दियों को भविष्य में किसी भी प्रकार का अपराध नहीं करने की समझाइश दी गई। जेल लोक अदालत में जेल अधीक्षक अलका सोनकर, पैनल अधिवक्ता मनोज कुमार सुमन, संतोष लडिय़ा, उप जेल अधीक्षक सलीम खान मौजूद थे।

Dakhal News

Dakhal News 22 October 2020


Guna, Three youths, were killed , high-speed car, rammed, truck uncontrolled

गुना। जिले के चाचौड़ा थाना क्षेत्र में गुरुवार तडक़े एक तेज रफ्तार कार अनियंत्रित होकर सडक़ किनारे खड़े एक ट्रक में जा घुसी। हादसा इतना भीषण था कि इस हादसे में कार सवार तीन युवकों की मौके पर ही मौत हो गई। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मृतकों के शवों को कार से निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और मामले की जांच शुरू की।   चाचौड़ा थाना पुलसि के अनुसार, इंदौर से तीन युवक कार में सवार होकर गुना जा रहे थे। गुरुवार तडक़े राष्ट्रीय राजमार्ग 46 पर ग्राम काला पहाड़ के पास उनकी तेज रफ्तार कार अनियंत्रित हो गई और सडक़ किनारे खड़े ट्रक से टकरा गई। हादसा इतना भीषण था कि कार के परखच्चे उड़ गए और उसमें सवार तीनों युवकों की मौके पर ही मौत हो गई। राहगीरों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और तीनों के शव कार से निकालकर पोस्टमार्टम के लिए चाचौड़ा के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचाया। पुलिस ने मृतकों के नाम 24 वर्षीय रचित दुबे, 33 वर्षीय विक्की दुबे और 17 वर्षीय पीयूष दुबे बताये हैं। यह सभी इंदौर के रहने वाले थे। पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है और फिलहाल मामले की जांच जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 22 October 2020


indore,242 new cases, corona,three people also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना संक्रमित मरीजों और इस महामारी से मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यहां बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना के 242 नये मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 32,532 और मृतकों की संख्या 667 हो गई है।    इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने गुरुवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा बुधवार देर रात 4774 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 242 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 32,532 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से तीन लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 667 हो गई है। हालांकि, इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 28,350 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 3515 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 22 October 2020


bhopal, Ayurveda medicines,corona infected patients, Health Department prohibits

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति से निपटने और उसे काबू करने में जुटी सरकार ने बड़ा फैसला किया है। अब प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों पर आयुर्वेदिक दवाइयों का परीक्षण नहीं किया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग ने अंग्रेजी और आयुर्वेदिक दवाओं को एक साथ खाने से शरीर पर पडऩे वाले असर का अध्ययन नहीं होने का हवाला देते हुए इस पर रोक लगा दी है। ऐसे में अब मरीजों पर आयुर्वेदिक दवाओं का परीक्षण केंद्रीय आयुष विभाग की मंजूरी के बाद ही किया जाएगा।   पिछले हफ्ते राज्य तकनीकी सलाहकार समिति की बैठक में लिए गए निर्णयों के आधार पर यह आदेश सभी संबंधित अधिकारियों को जारी कर दिया गया है। आदेश के अनुसार अब कोरोना से संक्रमित मरीजों को आयुर्वेदिक काढ़ा और प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली दवाएं भी नहीं दी जाएंगी। मरीजों को होम आईसोलेशन में भी उस स्थिति में भेजने के निर्देश है जब सैंपल लेने या लक्षण दिखाने के सात दिन पूरा होने के बाद पिछले तीन दिन से बिना दवा खाए बुखार नहीं आया हो। पिछले चार दिन से मरीज का ऑक्सीजन का स्तर 95 फीसद से ज्यादा हो और सांस लेने में कोई दिक्कत नहीं हो रही हो। बता दे कि मप्र में अब कोरोना संक्रमण के मामले में तेजी से कमी आ रही है। यहां नए मरीजों के मुकाबले रिकवरी रेट अधिक है। प्रदेश में आयुष अस्पतालों को भी कोविड केयर केंद्र बनाया गया है, जहां मरीजों को एलोपैथी के साथ आयुर्वेदिक व होम्योपैथी दवाएं भी दी जा रही हैं। कुछ जगह ट्रायल भी हो रहे हैं। लेकिन अब इस पर रोक लगा दी गई है।

Dakhal News

Dakhal News 21 October 2020


bhopal, Ayurveda medicines,corona infected patients, Health Department prohibits

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति से निपटने और उसे काबू करने में जुटी सरकार ने बड़ा फैसला किया है। अब प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों पर आयुर्वेदिक दवाइयों का परीक्षण नहीं किया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग ने अंग्रेजी और आयुर्वेदिक दवाओं को एक साथ खाने से शरीर पर पडऩे वाले असर का अध्ययन नहीं होने का हवाला देते हुए इस पर रोक लगा दी है। ऐसे में अब मरीजों पर आयुर्वेदिक दवाओं का परीक्षण केंद्रीय आयुष विभाग की मंजूरी के बाद ही किया जाएगा।   पिछले हफ्ते राज्य तकनीकी सलाहकार समिति की बैठक में लिए गए निर्णयों के आधार पर यह आदेश सभी संबंधित अधिकारियों को जारी कर दिया गया है। आदेश के अनुसार अब कोरोना से संक्रमित मरीजों को आयुर्वेदिक काढ़ा और प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली दवाएं भी नहीं दी जाएंगी। मरीजों को होम आईसोलेशन में भी उस स्थिति में भेजने के निर्देश है जब सैंपल लेने या लक्षण दिखाने के सात दिन पूरा होने के बाद पिछले तीन दिन से बिना दवा खाए बुखार नहीं आया हो। पिछले चार दिन से मरीज का ऑक्सीजन का स्तर 95 फीसद से ज्यादा हो और सांस लेने में कोई दिक्कत नहीं हो रही हो। बता दे कि मप्र में अब कोरोना संक्रमण के मामले में तेजी से कमी आ रही है। यहां नए मरीजों के मुकाबले रिकवरी रेट अधिक है। प्रदेश में आयुष अस्पतालों को भी कोविड केयर केंद्र बनाया गया है, जहां मरीजों को एलोपैथी के साथ आयुर्वेदिक व होम्योपैथी दवाएं भी दी जा रही हैं। कुछ जगह ट्रायल भी हो रहे हैं। लेकिन अब इस पर रोक लगा दी गई है।

Dakhal News

Dakhal News 21 October 2020


bhopal, 150 new cases , corona found

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार कमी देखने को मिल रही है। सितम्बर में यहां प्रतिदिन कोरोना के तीन से अधिक नये मामले सामने आ रहे थे, लेकिन अक्टूबर के प्रथम एवं द्वितीय सप्ताह में यह संख्या घटकर 200 से 300 के बीच पहुंच गई। तीसरे सप्ताह में इसमें और सुधार देखा जा रहा है। सोमवार को भोपाल में जहां कोरोना के 190 नये मरीज मिले थे, जबकि मंगलवार को यह संख्या घटकर 150 रह गई है।    भोपाल सीएमएचओ कार्यालय से मिली जानकारी जानकारी के मुताबिक, राजधानी में मंगलवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में 150 नए मरीजों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढक़र 22,867 हो गई है। वहीं, भोपाल में संक्रमित मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं। यहां अब तक 20,500 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 2367 है, जिनका उपचार जारी है, जबकि भोपाल में कोरोना से अब तक 455 लोगों की मौत हो चुकी है।

Dakhal News

Dakhal News 20 October 2020


Betul, Ambulance left ,pregnant woman ,district hospital gate, delivery

बैतूल। जिला अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही और संवदनहीनता सोमवार रात सामने आई। गर्भवती महिला को प्रसव के लेकर आई एंबुलेंस महिला को अस्पताल के गेट पर ही छोड़कर चली गई। समय पर महिला को प्रसूती वार्ड में भर्ती न किए जाने पर महिला ने फर्श पर ही बच्चे को जन्म दे दिया। फर्श पर बिलखते नवजात को देख जब लोगों ने आपत्ति ली, तब जाकर स्वास्थ्यकर्मियों ने महिला को वार्ड में भर्ती किया।    प्राप्त जानकारी के अनुसार जिला मुख्यालय से 12 किमी दूर बोड़ी गांव की वृद्धा मुन्नी बाई प्रसव पीड़ा से तड़पती अपनी बेटी को लेकर सोमवार रात 108 एम्बुलेंस से जिला अस्पताल पहुंची थी। गांव से आशा कार्यकर्ता ने भी उसे अकेले भेज दिया। एम्बुलेंस चालक ने गर्भवती को प्रसूति वार्ड के गेट पर ही उतार दिया और वृद्ध महिला को पर्ची बनवाने के लिए ट्रामा सेंटर से दूर मुख्य अस्पताल भेज दिया। इस बीच गर्भवती गेट पर ही आधे घंटे तक तड़पती रही और रात करीब 11 बजे वहीं बच्चे को जन्म दे दिया। रक्तस्राव अधिक हो जाने के कारण महिला बेहोश हो गई।  लोगों की नजर जब प्रसूता पर पड़ी तो उन्होंने हंगामा कर दिया, जिसके बाद नींद से जागे अस्पताल प्रशासन ने प्रसूता को भर्ती कराया। ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर रंजीत राठौर का कहना है कि 108 एंबुलेंस चालक की लापरवाही है। जब मरीज की कंडीशन सीरियस थी तो चालक को इसकी जानकारी स्टाफ को देनी थी लेकिन वह प्रसूता को गेट पर ही उतार कर भाग गया।    अस्पताल के सिविल सर्जन अशोक बारंगा का कहना है कि उन्हें इसकीं जानकारी नही है, ऐसा हुआ है तो पता लगाते हैं किसकी गलती है। वहीं, सीएमएचओ डॉ. प्रदीप धाकड़ का कहना है कि मामला गंभीर है, वे स्वयं अस्पताल जाकर जांच करेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 20 October 2020


Gwalior, Deadly attack ,bike rider , old dispute

ग्वालियर। शहर के माधवनगर थाना क्षेत्र में कैलाश टॉकीज के पास इंद्रमणि मॉल के सामने सोमवार सुबह एक बाइक सवार युवक को एक बदमाश ने धक्का देकर गिराया और कुल्हाड़ी से हमला कर दिया, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और युवक को गंभीर हालत में अस्पताल पहुंचाया, जहां उसका उपचार जारी है। पुलिस ने हमलावर के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर मामले को जांच में लिया है। प्रारंभिक जांच में पुराना विवाद सामने आया है।   पुलिस के अनुसार, शहर के नई सडक़ स्थित शांति नगर निवासी समीर खान शिंदे की छावनी में एक दुकान पर मैकेनिक का काम करता है। वह रोजाना की तरह सोमवार सुबह घर से दुकान जाने के लिए निकला था, तभी कैलाश टाकीज के पास स्थित इंद्रमणि मॉल के सामने एक युवक ने उसकी बाइक को धक्का देकर गिरा दिया और कुल्हाड़ी से जानलेवा हमला कर दिया। इसके बाद युवक अपनी बाइक लेकर वहां से भाग गया। स्थानीय लोगों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंचकर घायल को अस्पताल पहुंचाया और मामले की जांच शुरू की।    पुलिस के अनुसार, प्रारंभिक जांच में हमलावर की पहचान अनवर खान के रूप में हुई है। बताया गया है कि समीर से पहले भी उसका विवाद होता रहा है। संभवत: पुराने विवाद के चलते ही यह हमला हुआ है। समीर पर कुल्हाडी से पांच बार किये गये हैं, जिससे उसकी दो हड्डियां टूट गई हैं और फिलहाल उसकी हालत गंभीर है। पुलिस हमलावर की तलाश में जुटी है।

Dakhal News

Dakhal News 19 October 2020


bhopal,Monsoon farewell, from MP , October 22, cold will knock

भोपाल/ इंदौर। मध्य प्रदेश में मानसून की विदाई कई जिलों से अब तक नहीं हुई है। विभाग के अनुसार इंदौर से मानसून की विदाई 22 अक्टूबर के आसपास होने की संभावना है। अभी पश्चिमी विक्षोभ व अरब सागर में बने कम दबाव के क्षेत्र के कारण इंदौर में दिन में हल्के बादल बन रहे हैं।    इसके अलावा बड़वानी, खंडवा, खरगोन में बारिश हो रही है। इंदौर में रात के समय भी बादल होने के कारण ये पृथ्वी की उष्मा को जाने नहीं दे रहे। इस वजह से इंदौर में पिछले एक सप्ताह से रात का तापमान सामान्य से पांच से छह डिग्री अधिक बना हुआ है। रविवार को भी दिन में कड़ी धूप के कारण लोगों को उमस का अहसास हुआ।   भोपाल स्थित मौसम केंद्र के वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक वेद प्रकाश सिंह ने सोमवार को जानकारी देते हुए बताया कि पश्चिमी विक्षोभ जैसे-जैसे जम्मू कश्मीर की ओर शिफ्ट होगा उसके बाद तापमान में हल्की गिरावट अगले कुछ दिनों में दिखाई देगी। इंदौर में 10 से 15 नवंबर के आसपास रात में सर्द हवाएं चलने पर ठंड की शुरूआत होने की संभावना है। पिछले वर्षो में नवंबर के अंत तक सर्दियों की शुरुआत होती थी लेकिन इस बार नवंबर में जल्द सर्दियों की शुरुआत होगी।

Dakhal News

Dakhal News 19 October 2020


anuppur, 5 new ,corona infected, 31 people leave healthy

अनूपपुर। स्वास्थ्य विभाग की जानकारी अनुसार रविवार को प्राप्त 87 रिपोर्ट में 5 व्यक्तियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। जिसमे 3 पुरूष, 2 महिलाएँ शामिल हैं। वहीं जैतहरी में 2 तथा अनूपपुर, श्रमिकनगर एवं बिजुरी में 1-1 संक्रमित पाए गए।   रिपोर्ट प्राप्त होते ही स्वास्थ्य विभाग के दिशा निर्देशों अनुसार सक्रमितों को कोविड केयर सेंटर भेजने व होम आइसोलेशन हेतु निर्देशित करने, सम्बंधित कंटेनमेंट क्षेत्रों में स्क्रीनिंग एवं संक्रमितों के सम्पर्क मेंलेने की कार्यवाही की जा रही है।   उल्लेखनीय है कि अब तक प्राप्त कोरोना जाँच रिपोर्ट में जिले में 1457 व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। वर्तमान में सक्रिय 157 है। रविवार को 31 व्यक्ति स्वस्थ होने पर रवाना किया गया। अब तक 1290 कोरोना संक्रमित स्वस्थ होकर जा चुके हैं तथा 10 की मृत्यु हो चुकी है। अब तक कोरोना जाँच के लिए 19994 नमूने जा चुके हैं।

Dakhal News

Dakhal News 18 October 2020


Narsinghpur, Scorpio collides, with auto, one dead, 13 injured

नरसिंहपुर। जिले से गुजरे राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 44 पर रविवार तड़के एक स्कार्पियो ने लोडिंग ऑटो को टक्कर मार दी। इस हादसे में एक महिला की मौत हो गई, जबकि 13  अन्य लोग घायल हो गए। हादसे में घायल हुए एक बच्चे ने ही फोन पर एंबुलेंस बुलाई, जिसके बाद घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया। घायल बच्चे आकाश यादव को कमर व मुंह पर चोटें आई हैं।     प्राप्त जानकारी के अनुसार लखनादौन से बरमान जा रहे एक लोडिंग ऑटो को गलत दिशा से आ रही स्कार्पियो कार ने टक्कर मार दी। ऑटो में लखनादौन और निवारी टोला गांव के यादव, पटेल और सेन परिवार के 14 लोग सवार थे, जो बरमान के नर्मदा के सूरजकुंड नहाने के लिए तिपहिया लोडिंग ऑटो से निकले थे। घटना के समय ऑटो चालक को छोड़ शेष सभी लोग सो रहे थे। हादसे में लखनादौन के वार्ड नम्बर 9 की निवासी कलिया बाई पति शिवम यादव 60 वर्ष की मौत हो गई। वहीं घायलों में रामकुमारी 45, खुब्बी लाल, रीना पटेल 65, रमेश सेन 60, शीला पटेल 40, पुष्पाबाई 18, डिम्मा बाई 62, गीताबाई 50, चम्पाबाई 45, सविता यादव 45, विमल यादव 52, बुधउ पटेल 55, आशीष यादव 22 वर्ष की हालत नाजुक होने के कारण इन्हें जबलपुर मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया है। शेष 3 घायलों को मामूली चोट होने के कारण घर वापस भेजा गया। करेली और नरसिंहपुर पुलिस आरोपित वाहन की तलाशी में जुटी है।

Dakhal News

Dakhal News 18 October 2020


bhopal, Chances rains less ,Madhya Pradesh, night temperatures ,come down

भोपाल। मध्य प्रदेश से पूरी तरह से मानसून की विदाई हो चुकी है। दो दिन से सक्रिय गहरा कम दबाव का क्षेत्र शनिवार को अरब सागर में पहुंचकर अवदाब के क्षेत्र में तब्दील हो गया है। वह अरब देशों की तरफ बढ़ रहा है। इस वजह से अब प्रदेश में बारिश की संभावना कम ही है।   राजधानी भोपाल में मौसम साफ बना हुआ है। पिछले दो दिनों से धूप और उमस ने परेशान कर रखा है। दिन के समय गर्मी और रात में ठंडक का अहसास हो रहा है। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने रविवार को जानकारी देते हुए बताया कि बादल छंटने और हवा के रुख में परिवर्तन होने से अब रात के तापमान में गिरावट होने लगेगी। वर्तमान में आंध्र प्रदेश के तटीय इलाके में एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। सोमवार, 19 अक्टूबर को भी दक्षिण आंध्र प्रदेश के तटीय इलाके में एक कम दबाव का क्षेत्र बनेगा, लेकिन इन सिस्टम से मप्र के मौसम में बदलाव की संभावना कम ही है।    उधर, वातावरण में नमी की मात्रा कम होने से बादल भी छंटने लगेंगे। साथ ही हवाओं का रुख भी उत्तर-पश्चिमी होने की संभावना है। इससे अब धीरे-धीरे रात के तापमान में गिरावट दर्ज होने लगेगी। संभवत: एक सप्ताह में दक्षिण-पश्चिम मानसून प्रदेश से विदाई भी ले सकता है।

Dakhal News

Dakhal News 18 October 2020


ujjain, death toll from, poisonous liquor,14, 8 accused arrested

उज्जैन। जिले में जहरीली शराब पीने से बीते दो दिन में मरने वालों की संख्या बढ़कर 14 हो गई है। पहले इन लोगों की मौत संदिग्ध परिस्थितियों में मानी जा रही थी लेकिन गुरुवार देर रात पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई तो इस मामले का खुलासा हो गया कि इन लोगों की मौत जहरीली शराब पीने से हुई है। इसके बाद पुलिस अधीक्षक मनोज सिंह के निर्देश पर अवैध शराब का धंधा करने वाले 71 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है और इनमें से कुछ लोगों को गिरफ्तार भी कर लिया गया है। कुछ पर राज्य सुरक्षा कानून (रासुका) लगाया गया है। इसके साथ ही थाना खाराकुआं प्रभारी एमएल मीणा, एसआई निरंजन शर्मा समेत चार पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर एसआईटी गुरुवार देर रात उज्जैन पहुंची और मामले की जांच शुरू की। एसआईटी की टीम में गृह विभाग के सचिव राजेश राजौरा, एडीजी एसके झा और रतलाम डीआईजी सुशांत सक्सेना शामिल हैं। शुक्रवार सुबह यह विशेष जांच दल सबसे पहले नगर के पुराने दफ्तर रीगल टॉकीज भवन पहुंचा, जहां मौजूद कर्मचारियों से पूछताछ की। इसके बाद अधिकारी खाराकुआं थाने पहुंचे और मामले की जानकारी ली।उज्जैन में बीते बुधवार की सुबह छत्री चौक सराय के फुटपाथ पर दो मजदूरों के शव मिले थे। इसके बाद दो अन्य मजदूर गंभीर हालत में मिले, जिनकी उपचार के दौरान मौत हो गई। बुधवार की ही शाम करीब सात बजे एक अन्य व्यक्ति का शव माधव गोशाला के पास, जबकि छत्री चौक की पार्किंग में 85 साल के एक बुजुर्ग का शव मिला था। एक अन्य व्यक्ति की मौत उपचार के दौरान हुई थी। इस तरह बुधवार को सात लोगों की मौत हुई थी। बताया गया कि इन सभी ने झिंझर (कच्ची शराब) पी थी और पुलिस मामले की जांच कर रही थी, लेकिन गुरुवार सुबह नरसिंह घाट और ढाबा रोड क्षेत्र से भी दो मजदूरों के शव मिले तो हड़कंप मच गया। ये दोनों मजदूर शराब के आदी थे। इसके बाद गुरुवार शाम तक पांच मजदूरों की और मौत हो गई। यानी दो दिन में कुल 14 लोगों की मौत हो चुकी है। पुलिस के अनुसार सभी मजदूर कहारवाड़ी क्षेत्र से सस्ती झिंझर खरीदकर पीते थे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार सुबह एक उच्च स्तरीय बैठक कर मामले की जांच एसआईटी को सौंप दी। इसके साथ ही एसपी मनोज सिंह ने गुरुवार को ही खाराकुआं थाना प्रभारी एमएल मीणा, एसआई निरंजन शर्मा, आरक्षक शेख अनवर और नवाज शरीफ को निलंबित कर दिया। एसपी ने बताया कि अभी तक की जांच में पता लगा है कि गोपाल मंदिर के समीप नगर निगम के पुराने कार्यालय में कुछ लोग जहरीली शराब तैयार करते थे। मजदूर और भिक्षुक इन्हें खरीदते थे। पुलिस के अनुसार मृतकों की शिनाख्त विजय उर्फ कृष्णा (41) पुत्र मंगल भाटी निवासी नागदा, शंकरलाल (40) पुत्र नवलजी निवासी नागदा, दिनेश (45) पुत्र मगनलाल निवासी विष्णु कॉलोनी, पीरूशाह (45) पुत्र युसूफ शाह निवासी नलिया बाखल, बबलू (40) पुत्र टीकाराम यादव निवासी चंद्रशेखर आजाद मार्ग, ओंकार सिंह (70) पुत्र मोती सिंह निवासी ग्राम उमरिया आगर, बद्रीलाल उर्फ रतन (62) पुत्र भेरूलाल उर्फ पीरूजी निवासी ग्राम कान्हाखेड़ी, झारड़ा, कालू (20) पुत्र कैलाश निवासी खैय्या, पप्पू (50) पुत्र कचरू सिंह निवासी जहांगीरपुर इंगोरिया, प्रकाश (40) निवासी इंदौरगेट, जीतू (45) और 40, 80 व 60 वर्षीय तीन लोग अज्ञात हैं। उन तीनों की शिनाख्त कराने की कोशिश की जा रही है।पुलिस ने बताया कि आरोपितों में बेबी पति भूपेन्द्र, भूपेंद्र कहार, राजू मिर्ची पुत्र रामचंद्र कहार, निवासी नृसिंह घाट कॉलोनी व उसके पुत्र दीपक, जीवन पुत्र बाबूलाल कहार निवासी चौबीस खंभा मार्ग, अशोक पुत्र तेजू कहार निवासी कहारवाड़ी के अलावा दो अन्य लोगों को गिरफ्तार किया गया है। साथ ही कई लोग हिरासत में लिए गए हैं। इसके अलावा सिकंदर, गब्बर, युनूस नामक आरोपितों के खिलाफ पुलिस ने गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। साथ ही कलेक्टर आशीष सिंह ने जहरीली शराब बनाने वालों पर रासुका के तहत कार्रवाई की है।

Dakhal News

Dakhal News 16 October 2020


indore,342 new cases , corona found ,five people also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। यहां संक्रमित मरीजों के साथ-साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। अब यहां कोरोना के 342 नये मामले सामने आए हैं, जबकि पांच लोगों की मौत हुई है। इसके बाद इंदौर में संक्रमित मरीजों की संख्या 31,096 और मृतकों की संख्या 654 हो गई है। यहां एक दिन में सर्वाधिक 495 नये संक्रमित मिलने का रिकॉर्ड है।   इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने शुक्रवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा गुरुवार देर रात 2288 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 342 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 31,096 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से पांच लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 654 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 26,669 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 3773 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 16 October 2020


bhopal, More deaths, from corona, MP, 1308 new cases, 1,56,584 infected

भोपाल। मध्यप्रदेश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 1308 नये मामले सामने आए हैं, जबकि 24 लोगों की मौत हुई है। इसके बाद राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या एक लाख 56 हजार 584 और मृतकों की संख्या 2710 हो गई है। यह जानकारी स्वास्थ्य विभाग द्वारा गुरुवार देर शाम जारी कोरोना से संबंधित हेल्थ बुलेटिन में दी गई। नये मामलों में इंदौर-372, भोपाल-181, जबलपुर-69 के अलावा अन्य जिलों में 50 से कम मरीज मिले हैं।बुलेटिन के अनुसार, गुरुवार को प्रदेशभर में 27,425 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई। इनमें 1308 पॉजिटिव और 26,117 रिपोर्ट निगेटिव आईं, जबकि 252 सेम्पल रिजेक्ट हुए। इसके बाद राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 1,55,276 से बढ़कर 1,56,584 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 30,754, भोपाल 21,417, ग्वालियर, 11,721, जबलपुर 11,932, खरगौन 3671, उज्जैन 3307, मुरैना 2701, सागर 3015, शिवपुरी 2625, नरसिंहपुर 2913, धार 2559, नीमच 2276, रतलाम 2257, बड़वानी 2030, बैतूल 2229, विदिशा 1949, रीवा 2207, शहडोल 2466, दमोह 1963, मंदसौर 1905, खंडवा 1697, सीहोर 1996, होशंगाबाद 2643, सतना 1965, राजगढ़ 1521, झाबुआ 1624, देवास 1756, दतिया 1317, रायसेन 1602, छतरपुर 1430, कटनी 1682, छिंदवाड़ा 2126, अलीराजपुर 1035, अनूपपुर 1409, भिण्ड 1076, शाजापुर 1084, श्योपुर 972, बालाघाट 1721, हरदा 1210, टीकमगढ़ 941, बुरहानपुर 769, सिवनी 1147, सिंगरौली 1183, गुना 852, सीधी 1124, पन्ना 773, मंडला 933, अशोकनगर, 542, डिंडौरी 626, उमरिया 819, आगरमालवा 439 और निवाड़ी 376 मरीज शामिल हैं। राज्य में गुरुवार को कोरोना से 24 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। मृतकों में भोपाल के पांच, इंदौर के तीन, जबलपुर, खरगौन, सीहोर, विदिशा के दो-दो और सागर, नरसिंहपुर, धार, रतलाम, दमोह, खंडवा, सिंगरौली व उमरिया के एक-एक मरीज शामिल हैं। इसके बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या बढ़कर 2710 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 649, भोपाल 438, उज्जैन 97, बुरहानपुर 25, खंडवा 44, जबलपुर 188, खरगौन 57, ग्वालियर 147, धार 38  मंदसौर 19, नीमच 34, सागर 117, देवास 23, रायसेन 30, होशंगाबाद 44, सतना 35, आगरमालवा 09, झाबुआ 14, अशोकनगर 14, शाजापुर 17, दतिया 19, छिंदवाड़ा 33, सीहोर 46, उमरिया 12, रतलाम 49, बड़वानी 21, मुरैना 24, राजगढ़ 29, श्योपुर 06, टीमकगढ़ 26, रीवा 29, गुना 15, हरदा 18, कटनी 15, सीधी 09, शिवपुरी 24, अलीराजपुर 13, भिंड 07, बैतूल 50, नरसिंहपुर 23, सिवनी 08, सिंगरौली 23, छतरपुर 28, विदिशा 40, दमोह 47, बालाघाट 08, अनूपपुर 11, शहडोल 25, निवाड़ी 01,मंडला 09 और पन्ना के तीन व्यक्ति शामिल हैं।बुलेटिन में राहत की खबर यह है कि राज्य में अब तक 1,39,717 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। इनमें 1559 मरीज गुरुवार को स्वस्थ हुए हैं। अब प्रदेश में कोरोना के सक्रिय प्रकरण 14,157 हैं।

Dakhal News

Dakhal News 15 October 2020


bhopal, More deaths, from corona, MP, 1308 new cases, 1,56,584 infected

भोपाल। मध्यप्रदेश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 1308 नये मामले सामने आए हैं, जबकि 24 लोगों की मौत हुई है। इसके बाद राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या एक लाख 56 हजार 584 और मृतकों की संख्या 2710 हो गई है। यह जानकारी स्वास्थ्य विभाग द्वारा गुरुवार देर शाम जारी कोरोना से संबंधित हेल्थ बुलेटिन में दी गई। नये मामलों में इंदौर-372, भोपाल-181, जबलपुर-69 के अलावा अन्य जिलों में 50 से कम मरीज मिले हैं।बुलेटिन के अनुसार, गुरुवार को प्रदेशभर में 27,425 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई। इनमें 1308 पॉजिटिव और 26,117 रिपोर्ट निगेटिव आईं, जबकि 252 सेम्पल रिजेक्ट हुए। इसके बाद राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 1,55,276 से बढ़कर 1,56,584 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 30,754, भोपाल 21,417, ग्वालियर, 11,721, जबलपुर 11,932, खरगौन 3671, उज्जैन 3307, मुरैना 2701, सागर 3015, शिवपुरी 2625, नरसिंहपुर 2913, धार 2559, नीमच 2276, रतलाम 2257, बड़वानी 2030, बैतूल 2229, विदिशा 1949, रीवा 2207, शहडोल 2466, दमोह 1963, मंदसौर 1905, खंडवा 1697, सीहोर 1996, होशंगाबाद 2643, सतना 1965, राजगढ़ 1521, झाबुआ 1624, देवास 1756, दतिया 1317, रायसेन 1602, छतरपुर 1430, कटनी 1682, छिंदवाड़ा 2126, अलीराजपुर 1035, अनूपपुर 1409, भिण्ड 1076, शाजापुर 1084, श्योपुर 972, बालाघाट 1721, हरदा 1210, टीकमगढ़ 941, बुरहानपुर 769, सिवनी 1147, सिंगरौली 1183, गुना 852, सीधी 1124, पन्ना 773, मंडला 933, अशोकनगर, 542, डिंडौरी 626, उमरिया 819, आगरमालवा 439 और निवाड़ी 376 मरीज शामिल हैं। राज्य में गुरुवार को कोरोना से 24 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। मृतकों में भोपाल के पांच, इंदौर के तीन, जबलपुर, खरगौन, सीहोर, विदिशा के दो-दो और सागर, नरसिंहपुर, धार, रतलाम, दमोह, खंडवा, सिंगरौली व उमरिया के एक-एक मरीज शामिल हैं। इसके बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या बढ़कर 2710 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 649, भोपाल 438, उज्जैन 97, बुरहानपुर 25, खंडवा 44, जबलपुर 188, खरगौन 57, ग्वालियर 147, धार 38  मंदसौर 19, नीमच 34, सागर 117, देवास 23, रायसेन 30, होशंगाबाद 44, सतना 35, आगरमालवा 09, झाबुआ 14, अशोकनगर 14, शाजापुर 17, दतिया 19, छिंदवाड़ा 33, सीहोर 46, उमरिया 12, रतलाम 49, बड़वानी 21, मुरैना 24, राजगढ़ 29, श्योपुर 06, टीमकगढ़ 26, रीवा 29, गुना 15, हरदा 18, कटनी 15, सीधी 09, शिवपुरी 24, अलीराजपुर 13, भिंड 07, बैतूल 50, नरसिंहपुर 23, सिवनी 08, सिंगरौली 23, छतरपुर 28, विदिशा 40, दमोह 47, बालाघाट 08, अनूपपुर 11, शहडोल 25, निवाड़ी 01,मंडला 09 और पन्ना के तीन व्यक्ति शामिल हैं।बुलेटिन में राहत की खबर यह है कि राज्य में अब तक 1,39,717 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। इनमें 1559 मरीज गुरुवार को स्वस्थ हुए हैं। अब प्रदेश में कोरोना के सक्रिय प्रकरण 14,157 हैं।

Dakhal News

Dakhal News 15 October 2020


bhopal, After 20 October, monsoon farewell, rain in Indore-Gwalior

भोपाल। मध्य प्रदेश के मौसम में पल पल बदलाव देखने को मिल रहा है। इस वर्ष मानसून ने इंदौर में अपने तय समय 15 जून को दस्तक दी, लेकिन इसकी विदाई देरी से होगी। मौसम विभाग ने 5 अक्टूबर को मानसून की विदाई की संभावना जताई थी, लेकिन 10 दिन बीतने के बाद भी अभी तक इसके कोई आसार नजर नहीं आ रहे हैं। विभाग का कहना है कि 20 अक्टूबर के बाद मानसून की विदाई होगी। 20 साल बाद ऐसा मौका आया है जब मानसून देरी से लौटेगा।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक वेद प्रकाश सिंह ने गुरुवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि अक्टूबर माह का दूसरा सप्ताह बीत जाने के बाद भी इस बार बंगाल की खाड़ी सामान्य से ज्यादा सक्रिय है। दक्षिण पश्चिम मानसून गुजरने के बाद दक्षिण भारत के तटीय इलाकों में उत्तर पूर्व मानसून की शुरुआत होती है। लेकिन इस बार उत्तर पूर्वी मानसून के असर से बारिश का वितरण दक्षिण पूर्वी इलाकों में न होकर दक्षिण मध्य क्षेत्र महाराष्ट्र, दक्षिणी मप्र, कर्नाटक व तेलंगाना में हो रहा है। ऐसे में इंदौर में इस बार मानसून की विदाई 20 अक्टूबर के बाद ही होने की संभावना है। 20 साल में इंदौर में यह पहला मौका होगा जब मानसून इतनी देरी से जाएगा। इस वर्ष इंदौर में मानसून आगमन से अब तक 48.1 इंच बारिश हुई है।   पूरे प्रदेश में एक साथ बारिश की स्थिति बन रही मौसम विज्ञानी के मुताबिक इंदौर में मंगलवार को लोकल सिस्टम बनने के कारण बारिश हुई। वर्तमान में अवदाब दक्षिण महाराष्ट्र के ऊपर बना हुआ है। 16 अक्टूबर की सुबह यह अरब सागर में प्रवेश कर कम दबाव के क्षेत्र में तब्दील हो जाएगा और बाद में और अधिक शक्तिशाली होकर अवदाब में तब्दील होगा। इसके असर से 16 से 19 अक्टूबर के बीच दक्षिणी गुजरात से जुड़े इंदौर, होशंगाबाद, जबलपुर व भोपाल संभाग में गरज-चमक के साथ मध्यम वर्षा होने की संभावना है। यह पहला मौका होगा जब अक्टूबर माह में एक साथ पूरे प्रदेश में बारिश देखने को मिल सकती है।   ग्वालियर में आज बारिश के आसार वहीं ग्वालियर में मौसम के मिजाज में फिर से गर्माहट आ गई है। बुधवार को न्यूनतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। पांच दिन में छह डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी हुई है। इस बढ़ोतरी की वजह से रात में गर्मी लौट आई। राहत के लिए एसी व कूलर चलाने पड़ रहे हैं। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में शहर में बादल छाने के आसार जताए हैं। बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र आंध्र प्रदेश के पास पहुंच गया है। यह महाराष्ट्र की ओर बढ़ रहा है। इस सिस्टम की वजह से हवा में नमी की मात्रा बढ़ गई है। रात में बादल छाने लगे हैं। बादलों के चलते गर्मी बढ़ गई है। रात में जो ठंडक हो रही थी, वह कम हो गई। दिन में उमस का सामना करना पड़ा। मौसम विभाग के अनुसार मौसम में और बदलाव आएगा। रात में गर्मी बढ़ सकती है।   फिलहाल ऐसा ही रहेगा मौसम, नवंबर में आएगी ठंड बंगाल की खाड़ी में दो कम दबाव के क्षेत्र विकसित हुए हैं। पहला आंध्र प्रदेश से होते हुए महाराष्ट्र की ओर बढ़ रहा है। यह मुंबई के पास पहुंचने पर अति कम दबाव में बदल जाएगा, जिससे हवा में नमी बढ़ेगी। 16 से 20 अक्टूबर के बीच ग्वालियर में बूंदाबांदी के आसार बनेंगे।    20 अक्टूबर के बाद बादल छंट जाएंगे, लेकिन तापमान में ज्यादा गिरावट नहीं आएगी। 19 अक्टूबर को थाइलैंड के पास नया कम दबाव का क्षेत्र विकसित होने के बाद आगे बढ़ेगा। आंध्र प्रदेश व ओडिशा तट पर टकराएगा। 22 अक्टूबर के बाद ग्वालियर में इसके असर से बादल छाएंगे, लेकिन बारिश नहीं कराएगा।

Dakhal News

Dakhal News 15 October 2020


bhopal, MP by-election,  125 candidates ,have submitted ,160 nomination papers

भोपाल। विधानसभा उप निर्वाचन 2020 के अंतर्गत प्रदेश के 19 जिलों के 28 विधानसभा क्षेत्रों में बुधवार को नामांकन प्रक्रिया के चौथे दिन 69 उम्मीदवारों ने 94 नाम निर्देशन-पत्र जमा किये गये। इस प्रकार अब तक कुल 125 उम्मीदवारों द्वारा 160 नाम निर्देशन-पत्र जमा किये गये हैं।प्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय द्वारा बुधवार देर शाम दी गई जानकारी के अनुसार, मुरैना जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 4-जौरा में 3 अभ्‍यर्थियों के 5 नाम निर्देशन-पत्र, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 5-सुमावली में 2 अभ्‍यर्थियों के 3 नाम निर्देशन-पत्र, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 6-मुरैना में पूर्व के अभ्‍यर्थियों के 2 नाम निर्देशन-पत्र, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 8-अम्‍बाह में 3 अभ्‍यर्थियों के 4 नाम निर्देशन पत्र, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 7-दिमनी में एक अभ्‍यर्थी के 2 नाम निर्देशन-पत्र, भिण्‍ड जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 13-गोहद में एक अभ्‍यर्थी के दो नाम निर्देशन-पत्र, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 12-मेहगांव में 6 अभ्‍यर्थियों के 6 नाम निर्देशन-पत्र, ग्‍वालियर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 15-ग्‍वालियर में एक अभ्‍यर्थी के 2 नाम निर्देशन-पत्र, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 16-ग्‍वालियर पूर्व में 5 अभ्‍यर्थियों के 8 नाम निर्देशन-पत्र और विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 19-डबरा में 5 अभ्‍यर्थियों के 5 नाम निर्देशन-पत्र जमा किये गये।दतिया जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 21-भांडेर में 3 अभ्‍यर्थियों के 6 नाम निर्देशन-पत्र, शिवपुरी जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 23-करेरा में एक अभ्‍यर्थी के 2 नाम निर्देशन-पत्र, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 24-पोहरी में 3 अभ्‍यर्थियों के 4 नाम निर्देशन-पत्र और पूर्व के अभ्‍यर्थी का एक नाम निर्देशन-पत्र, गुना जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 28-बमौरी में 4 अभ्‍यर्थियों के 6 नाम निर्देशन-पत्र, अशोकनगर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 32-अशोकनगर में एक अभ्‍यर्थी का एक नाम निर्देशन-पत्र, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 34-मुंगावली में 2 अभ्‍यर्थियों के 2 नाम निर्देशन-पत्र जमा किये गये।सागर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 37-सुरखी में एक अभ्‍यर्थी का एक नाम निर्देशन-पत्र, अनूपपुर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 87-अनूपपुर में 3 अभ्‍यर्थियों के 3 नाम निर्देशन-पत्र, रायसेन जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 142-सॉची में 1 अभ्‍यर्थियों का एक नाम निर्देशन-पत्र और पूर्व के अभ्‍यर्थी का एक नाम निर्देशन-पत्र, आगर-मालवा जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 166-आगर में 3 अभ्‍यर्थियों के 3 नाम निर्देशन-पत्र, देवास जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 172-हाटपिपल्‍या में 3 अभ्‍यर्थियों के 6 नाम निर्देशन-पत्र, धार जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 202-बदनावर में एक अभ्‍यर्थी का एक नाम निर्देशन-पत्र, इंदौर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 211-सांवेर में 3 अभ्‍यर्थियों के 4 नाम निर्देशन-पत्र, मंदसौर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 226-सुवासरा में 2 अभ्‍यर्थियों के 2 नाम निर्देशन-पत्र, छतरपुर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 53-मलहरा में एक अभ्‍यर्थी का एक नाम निर्देशन-पत्र जमा किया गया।बुरहानपुर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 179-नेपानगर और खण्‍डवा जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 175-मांधाता में 3-3 अभ्‍यर्थियों के 3-3 नाम निर्देशन-पत्र तथा राजगढ़ जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 161-ब्‍यावरा में 4 अभ्‍यर्थियों के 4 नाम निर्देशन-पत्र जमा किये गये।बता दें कि नाम निर्देशन-पत्र 16 अक्‍टूबर तक जमा होंगे। नाम निर्देशन-पत्रों की जाँच (स्क्रूटनी) 17 अक्‍टूबर को की जायेगी। नाम वापसी की प्रक्रिया 19 अक्‍टूबर तक होगी। मतदान 3 नवम्‍बर और मतगणना 10 नवम्‍बर को होगी।

Dakhal News

Dakhal News 14 October 2020


bhopal, MP by-election,  125 candidates ,have submitted ,160 nomination papers

भोपाल। विधानसभा उप निर्वाचन 2020 के अंतर्गत प्रदेश के 19 जिलों के 28 विधानसभा क्षेत्रों में बुधवार को नामांकन प्रक्रिया के चौथे दिन 69 उम्मीदवारों ने 94 नाम निर्देशन-पत्र जमा किये गये। इस प्रकार अब तक कुल 125 उम्मीदवारों द्वारा 160 नाम निर्देशन-पत्र जमा किये गये हैं।प्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय द्वारा बुधवार देर शाम दी गई जानकारी के अनुसार, मुरैना जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 4-जौरा में 3 अभ्‍यर्थियों के 5 नाम निर्देशन-पत्र, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 5-सुमावली में 2 अभ्‍यर्थियों के 3 नाम निर्देशन-पत्र, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 6-मुरैना में पूर्व के अभ्‍यर्थियों के 2 नाम निर्देशन-पत्र, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 8-अम्‍बाह में 3 अभ्‍यर्थियों के 4 नाम निर्देशन पत्र, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 7-दिमनी में एक अभ्‍यर्थी के 2 नाम निर्देशन-पत्र, भिण्‍ड जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 13-गोहद में एक अभ्‍यर्थी के दो नाम निर्देशन-पत्र, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 12-मेहगांव में 6 अभ्‍यर्थियों के 6 नाम निर्देशन-पत्र, ग्‍वालियर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 15-ग्‍वालियर में एक अभ्‍यर्थी के 2 नाम निर्देशन-पत्र, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 16-ग्‍वालियर पूर्व में 5 अभ्‍यर्थियों के 8 नाम निर्देशन-पत्र और विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 19-डबरा में 5 अभ्‍यर्थियों के 5 नाम निर्देशन-पत्र जमा किये गये।दतिया जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 21-भांडेर में 3 अभ्‍यर्थियों के 6 नाम निर्देशन-पत्र, शिवपुरी जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 23-करेरा में एक अभ्‍यर्थी के 2 नाम निर्देशन-पत्र, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 24-पोहरी में 3 अभ्‍यर्थियों के 4 नाम निर्देशन-पत्र और पूर्व के अभ्‍यर्थी का एक नाम निर्देशन-पत्र, गुना जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 28-बमौरी में 4 अभ्‍यर्थियों के 6 नाम निर्देशन-पत्र, अशोकनगर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 32-अशोकनगर में एक अभ्‍यर्थी का एक नाम निर्देशन-पत्र, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 34-मुंगावली में 2 अभ्‍यर्थियों के 2 नाम निर्देशन-पत्र जमा किये गये।सागर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 37-सुरखी में एक अभ्‍यर्थी का एक नाम निर्देशन-पत्र, अनूपपुर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 87-अनूपपुर में 3 अभ्‍यर्थियों के 3 नाम निर्देशन-पत्र, रायसेन जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 142-सॉची में 1 अभ्‍यर्थियों का एक नाम निर्देशन-पत्र और पूर्व के अभ्‍यर्थी का एक नाम निर्देशन-पत्र, आगर-मालवा जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 166-आगर में 3 अभ्‍यर्थियों के 3 नाम निर्देशन-पत्र, देवास जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 172-हाटपिपल्‍या में 3 अभ्‍यर्थियों के 6 नाम निर्देशन-पत्र, धार जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 202-बदनावर में एक अभ्‍यर्थी का एक नाम निर्देशन-पत्र, इंदौर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 211-सांवेर में 3 अभ्‍यर्थियों के 4 नाम निर्देशन-पत्र, मंदसौर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 226-सुवासरा में 2 अभ्‍यर्थियों के 2 नाम निर्देशन-पत्र, छतरपुर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 53-मलहरा में एक अभ्‍यर्थी का एक नाम निर्देशन-पत्र जमा किया गया।बुरहानपुर जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 179-नेपानगर और खण्‍डवा जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 175-मांधाता में 3-3 अभ्‍यर्थियों के 3-3 नाम निर्देशन-पत्र तथा राजगढ़ जिले के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 161-ब्‍यावरा में 4 अभ्‍यर्थियों के 4 नाम निर्देशन-पत्र जमा किये गये।बता दें कि नाम निर्देशन-पत्र 16 अक्‍टूबर तक जमा होंगे। नाम निर्देशन-पत्रों की जाँच (स्क्रूटनी) 17 अक्‍टूबर को की जायेगी। नाम वापसी की प्रक्रिया 19 अक्‍टूबर तक होगी। मतदान 3 नवम्‍बर और मतगणना 10 नवम्‍बर को होगी।

Dakhal News

Dakhal News 14 October 2020


Indore,444 new patients , corona found, 30382 number  infected

इंदौर। जिले में कोरोना संक्रमण में आई तेजी कम नहीं हो रही है। मंगलवार रात यहां 444 नए रोगी पाए गए हैं, जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 30382 पर जा पहुंची है।   मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा मंगलवार रात को जारी बुलेटिन के अनुसार मंगलवार रात को 2489 सैंपल की जांच की गई थी। इसमें 444 को पॉजीटिव पाया गया। इन्हें मिलाकर जिले में संक्रमितों की संख्या 30382 पर पहुंच गई है, जिनमें से 26025 रोगी स्वस्थ हो चुके हैं। जिले में कोरोना के एक्टिव प्रकरणों की संख्या 3711 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार चल रहा है। वहीं, मंगलवार को जिले में कोरोना के 03 रोगियों की मौत हो गई। जिन्हें मिलाकर कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या 646 पर जा पहुंची है।   उज्जैन में मिले 18 नए रोगीजिला स्वास्थ्य विभाग द्वारा मंगलवार रात को दी गई जानकारी के अनुसार जिले में 18 नए कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। नए संक्रमितों में से 14 उज्जैन के, 03 नागदा के और 01 मरीज खाचरौद का है। जिले  में संक्रमितों की कुल संख्या 3194 पर पहुंच गई है, जिनमें से 2943 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।

Dakhal News

Dakhal News 14 October 2020


indore,High court, gives notice, matter of acquisition ,buses for CM

इंदौर। सांवेर में आयोजित मुख्यमंत्री की सभा के लिए 600 बसों के अधिग्रहण का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। इस संबंध में इंदौर हाईकोर्ट में लगाई गई याचिका पर मंगलवार को हाईकोर्ट ने चुनाव आयोग, मुख्य सचिव सहित आठ अधिकारियों को नोटिस जारी किए हैं।     बीतों दिनों सांवेर में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की आमसभा हुई थी। इस सभा में भीड़ जुटाने के लिए छह सौ बसों के अधिग्रहण का मामला हाईकोर्ट पहुंच चुका है। बस में डीजल डलाने समेत अन्य खर्च सरकारी खजाने से किए जाने के आरोप में यह याचिका लगाई गई है। इससे पहले चुनाव आयोग से भी इस मामले में शिकायत की गई थी। डबल बेंच ने मंगलवार की सुनवाई के दौरान अधिवक्ता गौरव वर्मा के तर्कों से सहमत होते हुए भारत निर्वाचन आयोग, मध्यप्रदेश निर्वाचन आयोग, मुख्य सचिव मध्यप्रदेश शासन, प्रमुख सचिव सामान्य प्रशासन विभाग, कलेक्टर जिला इंदौर, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी, कार्यपालन यंत्री नर्मदा विकास प्राधिकरण इंदौर संभाग एवं कार्यपालन यंत्री नर्मदा विकास प्राधिकरण  सनावद को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।   यह है मामलायुवा कांग्रेस के प्रवक्ता जयेश गुरनानी ने बीते दिनों निर्वाचन आयोग को शिकायत की थी कि सांवेर विधानसभा में नर्मदा परियोजना के भूमिपूजन समारोह में मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के लिए जिला प्रशासन द्वारा 600 बसें अधिग्रहित की गई और सरकारी खजाने से उनके डीजल का भुगतान किया गया। कोरोना संकट के दौरान गाइडलाइन का उल्लंघन कर हजारों की संख्या में भीड़ जुटाई गई। संतोषजनक कार्रवाई नहीं होने पर गुरनानी ने इंदौर हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की है।

Dakhal News

Dakhal News 13 October 2020


indore,418 new cases , corona, 5 people died

इंदौर। मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा। बीते 24 घंटे में यहां कोरोना के 418 नये मामले सामने आए हैं, जबकि पांच लोगों की मौत हो गई। इसके बाद इंदौर में संक्रमित मरीजों की संख्या 29,938 और मृतकों की संख्या 643 हो गई है। इंदौर में लगातार 24वें दिन कोरोना के 400 से अधिक नये संक्रमित मिले हैं। यहां एक दिन में सर्वाधिक 495 नये संक्रमित मिलने का रिकॉर्ड है। प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने मंगलवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा सोमवार देर रात 2471 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 418 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 29,938 हो गई है। वहीं इंदौर में कोरोना से पांच लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 643 हो गई है। हालांकि राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं। यहां अब तक 25,627 मरीज कोरोना को मात देकर अस्पताल से घर आ गए हैं। सक्रिय मरीजों की संख्या 3700 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार चल रहा है।

Dakhal News

Dakhal News 13 October 2020


bhopal, More deaths , corona in MP, 1,78,298 infected , 1478 new cases

भोपाल। मध्यप्रदेश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 1478 नये मामले सामने आए हैं, जबकि 21 लोगों की मौत हुई है। इसके बाद राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या एक लाख 48 हजार 298 और मृतकों की संख्या 2645 हो गई है। यह जानकारी स्वास्थ्य विभाग द्वारा सोमवार देर शाम जारी कोरोना से संबंधित हेल्थ बुलेटिन में दी गई। नये मामलों में इंदौर-453, भोपाल-203, सीहोर-106, जबलपुर-95, ग्वालियर-54 के अलावा अन्य जिलों में 50 से कम मरीज मिले हैं।बुलेटिन के अनुसार, सोमवार को प्रदेशभर में 24,554 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई। इनमें 1478 पॉजिटिव और 23,076 रिपोर्ट निगेटिव आईं, जबकि 243 सेम्पल रिजेक्ट हुए। इसके बाद राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 1,46,820 से बढ़कर 1,48,298 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 29,520, भोपाल 20,031, ग्वालियर, 11,296, जबलपुर 11,416, खरगौन 3600, उज्जैन 3180, मुरैना 2681, सागर 2860, शिवपुरी 2499, नरसिंहपुर 2819, धार 2490, नीमच 2137, रतलाम 2206, बड़वानी 1966, बैतूल 2134, विदिशा 1864, रीवा 2020, शहडोल 2188, दमोह 1899, मंदसौर 1649, खंडवा 1655, सीहोर 1913, होशंगाबाद 2160, सतना 1790, राजगढ़ 1487, झाबुआ 1597, देवास 1713, दतिया 1305, रायसेन 1557, छतरपुर 1366, कटनी 1504, छिंदवाड़ा 1715, अलीराजपुर 1023, अनूपपुर 1323, भिण्ड 1025, शाजापुर 1043, श्योपुर 939, बालाघाट 1527, हरदा 1126, टीकमगढ़ 887, बुरहानपुर 760, सिवनी 1103, सिंगरौली 1094, गुना 835, सीधी 1079, पन्ना 755, मंडला 852, अशोकनगर, 533, डिंडौरी 585, उमरिया 799, आगरमालवा 421 और निवाड़ी 372 मरीज शामिल हैं। राज्य में सोमवार को कोरोना से 21 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। मृतकों में इंदौर-जबलपुर के तीन-तीन, खरगौन, नीमच, खंडवा के दो-दो और भोपाल, ग्वालियर, नरसिंहपुर, रतलाम, बैतूल, रीवा, दमोह, हरदा व उमरिया के एक-एक मरीज शामिल हैं। इसके बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 2624 से बढ़कर 2645 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 638, भोपाल 427, उज्जैन 97, बुरहानपुर 25, खंडवा 41, जबलपुर 182, खरगौन 54, ग्वालियर 146, धार 35  मंदसौर 18, नीमच 34, सागर 116, देवास 23, रायसेन 29, होशंगाबाद 43, सतना 33, आगरमालवा 08, झाबुआ 14, अशोकनगर 14, शाजापुर 16, दतिया 19, छिंदवाड़ा 33, सीहोर 44, उमरिया 11, रतलाम 47, बड़वानी 21, मुरैना 24, राजगढ़ 29, श्योपुर 06, टीमकगढ़ 26, रीवा 29, गुना 15, हरदा 18, कटनी 15, सीधी 09, शिवपुरी 24, अलीराजपुर 13, भिंड 07, बैतूल 50, नरसिंहपुर 22, सिवनी 08, सिंगरौली 21, छतरपुर 27, विदिशा 36, दमोह 44, बालाघाट 08, अनूपपुर 11, शहडोल 25, निवाड़ी 01,मंडला 07 और पन्ना के तीन व्यक्ति शामिल हैं।बुलेटिन में राहत की खबर यह है कि राज्य में अब तक 1,30,721 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। इनमें 1702 मरीज सोमवार को स्वस्थ हुए हैं। अब प्रदेश में कोरोना के सक्रिय प्रकरण 14,932 हैं।

Dakhal News

Dakhal News 12 October 2020


indore,453 new corona ,cases reported, 3 dead

इंदौर। मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। बीते 24 घंटे में कोरोना के 453 नए मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हो गई है। इसके साथ ही इंदौर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 29,520 और मृतकों की संख्या बढ़कर 638 हो गई है।   इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने सोमवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा रविवार देर रात 2965 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 453 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 29,520 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से तीन लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 638 हो गई है।   हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं। यहां अब तक 25,182 मरीज कोरोना को मात देकर घर पहुंच गए हैं। सक्रिय मरीजों की संख्या अब 3700 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 12 October 2020


bhopal, 234 new corona, patients found, three people also died

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना का कहर जारी है। शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। अब यहां कोरोना के 234 नये मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 19,572 और मृतकों की संख्या 423 हो गई है।   भोपाल सीएमएचओ कार्यालय से मिली जानकारी जानकारी के मुताबिक, राजधानी में शनिवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में 234 नए मरीजों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढक़र 19,572 हो गई है। वहीं, भोपाल में बीते 24 घंटों में कोरोना से तीन लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 423 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि भोपाल में संक्रमित मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं। यहां अब तक 17,181 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 1900 के करीब है, जिनका उपचार जारी है।    शनिवार को जिन लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, एम्स से दो लोग, गांधी मेडिकल कालेज से दो लोग, एसएके हॉस्पिटल से एक व्यक्ति, आरकेडीएफ मेडिकल कॉलेज से एक व्यक्ति, ओल्ड मिनाल रेसीडेंसी में एक ही परिवार के 4 लोग, अरेरा कालोनी में एक ही परिवार के 6 लोग, संस्कृति पाठशाला गांधीनगर से 4 लोग, जहांगीराबाद से 2 लोग शामिल हैं।

Dakhal News

Dakhal News 10 October 2020


bhopal, 234 new corona, patients found, three people also died

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना का कहर जारी है। शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। अब यहां कोरोना के 234 नये मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 19,572 और मृतकों की संख्या 423 हो गई है।   भोपाल सीएमएचओ कार्यालय से मिली जानकारी जानकारी के मुताबिक, राजधानी में शनिवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में 234 नए मरीजों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढक़र 19,572 हो गई है। वहीं, भोपाल में बीते 24 घंटों में कोरोना से तीन लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 423 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि भोपाल में संक्रमित मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं। यहां अब तक 17,181 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 1900 के करीब है, जिनका उपचार जारी है।    शनिवार को जिन लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, एम्स से दो लोग, गांधी मेडिकल कालेज से दो लोग, एसएके हॉस्पिटल से एक व्यक्ति, आरकेडीएफ मेडिकल कॉलेज से एक व्यक्ति, ओल्ड मिनाल रेसीडेंसी में एक ही परिवार के 4 लोग, अरेरा कालोनी में एक ही परिवार के 6 लोग, संस्कृति पाठशाला गांधीनगर से 4 लोग, जहांगीराबाद से 2 लोग शामिल हैं।

Dakhal News

Dakhal News 10 October 2020


Bhopal, Shop fire, behind state BJP office, burning goods ,worth lakhs

भोपाल। राजधानी भोपाल में सात नंबर स्टाप स्थित प्रदेश भाजपा कार्यालय के पीछे की तरफ स्थित एक वाटर प्यूरीफायर और ऑरो पार्ट्स दुकान में भीषण आग लग गई। शनिवार सुबह जब लोगों ने शटर से धुआं निकलते देखा, तब पुलिस को खबर दी। फायरकर्मियों ने मौके पर पहुंचकर आग बुझाई, लेकिन तब तक दुकान में रखा लाखों का माल जलकर खाक हो चुका था। आग किस वजह से लगी, फिलहाल ये पता नहीं चल सका है।    हबीबगंज पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार रामबाबू यादव की भाजपा कार्यालय के पास कृष्णा इंटर प्राइजेज के नाम से दुकान व गोदाम है। रामबाबू शुक्रवार रात दुकान बंद कर घर चले गए थे। शनिवार सुबह उन्हें एक परिचित ने फोन पर दुकान में आग लगने की सूचना दी। उनके पहुंचने के पहले ही फायर टीम मौके पर पहुंच चुकी थी। दुकान के अंदर गोदाम होने के कारण आग बुझाने में काफी मशक्कत करना पड़ी। दुकान व गोदाम में आने-जाने का गेट एक ही शटर था। शटर खोलने पर अंदर से धुएं का भारी गुबार बाहर आ रहा था, जिस कारण आग बुझाने में दमकलकर्मियों को काफी मशक्कत करना पड़ी। धुआं निकलने का अन्य कोई स्थान नहीं होने से दमकलकर्मी अंदर नहीं घुस पा रहे थे। बाहर से पाइप से प्रेशर के साथ पानी मारकर आग बुझाई जा रही थी। आग पर नियंत्रण पाने के जब धुआं कम हुआ, तब फायरकर्मी अंदर पहुंच पाए।   शार्ट सर्किट की आशंकापुलिस रामबाबू की शिकायत पर आगजनी का मामला दर्ज कर रही है। प्रथम दृष्टया आग शार्ट सर्किट से लगने की आशंका जताई जा रही है। हालांकि दुकान व गोदाम के अंदर की पूरी वायरिंग व कम्प्यूटर जलकर खाक हो गए हैं, इससे यह पता नहीं लगा कि आग कहां से लगी होगी। जांच के लिए एफएसएल की टीम को भी मौके पर बुलाया गया है, वहीं बिजली कंपनी के अधिकारियों को भी सूचना दी गई है। आग से लाखों के नुकसान की बात फरियादी द्वारा बताई गई है, हालांकि दुकान व गोदाम में रखे सामान व पार्ट्स की सूची मिलने के बाद ही पता चलेगा कि कितने का नुकसान हुआ है।

Dakhal News

Dakhal News 10 October 2020


bhopal, Even October, weather changing, rain is expected

भोपाल। मप्र में मौसम पल पल में बदल रहा है। मानसून विदाई से पहले प्रदेश को तर कर रहा है। प्रदेश के कई जिलों में बारिश की बौछारें गिर रही है। मौसम विभाग की मानें तो उड़ीसा के तट पर बने सिस्टम के कारण बंगाल की खाड़ी से नमी आ रही है। इस वजह से पूर्वी मध्य प्रदेश में बरसात हो रही है। शुक्रवार से पश्चिमी मध्य प्रदेश के भोपाल, होशंगाबाद संभाग के कुछ क्षेत्रों में भी बारिश का सिलसिला शुरू हो सकता है। शेष स्थानों पर गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी होने की संभावना बनी रहेगी।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने शनिवार को जानकारी देते हुए बताया कि अक्टूबर का महीना शुरु हो गया है, बावजूद इसके मौसम में बदलाव देखने को मिल रहे हैं। प्रदेश के कई जिलों में बारिश का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है, हालांकि बौछारों के बीच हल्की ठंड ने भी दस्तक दे दी है। मौसम विभाग की मानें तो  बंगाल की खाड़ी में बने ऊपरी हवा के चक्रवात के असर से पूर्वी मध्य प्रदेश में बारिश हो रही है।पिछले चौबीस घंटे में मंडला, मलाजखंड, बैतूल और छिंदवाड़ा समेत कई जिलों में बारिश हुई, वही अगले चौबीस घंटे में मौसम विभाग ने मध्यप्रदेश के 4 संभागों और आधा दर्जन जिलों में बारिश की संभावना जताई है।   मप्र के इन जिलों में फिर बारिश की संभावना, यहां जमकर बरसा पानी मौसम विभाग के अनुसार, उड़ीसा के तट पर बने सिस्टम के कारण बंगाल की खाड़ी से नमी आ रही है। इस वजह से पूर्वी मध्य प्रदेश में बरसात हो रही है। शुक्रवार से पश्चिमी मध्य प्रदेश के भोपाल, होशंगाबाद संभाग के कुछ क्षेत्रों में भी बारिश का सिलसिला शुरू हो सकता है। शेष स्थानों पर गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी होने की संभावना बनी रहेगी।   इन जिलों में गरज-चमक के साथ बौछार के आसारशहडोल, रीवा, जबलपुर, होशंगाबाद सभांग के जिलों में, खंडवा और देवास जिले में।   इन जिलों में गरज के साथ बिजली चमकने की संभावनाहोशंगबाद, शहडोल संभागों के जिलों, सिवनी, मंडला, बालाघाट जिलों में

Dakhal News

Dakhal News 10 October 2020


bhopal, Even October, weather changing, rain is expected

भोपाल। मप्र में मौसम पल पल में बदल रहा है। मानसून विदाई से पहले प्रदेश को तर कर रहा है। प्रदेश के कई जिलों में बारिश की बौछारें गिर रही है। मौसम विभाग की मानें तो उड़ीसा के तट पर बने सिस्टम के कारण बंगाल की खाड़ी से नमी आ रही है। इस वजह से पूर्वी मध्य प्रदेश में बरसात हो रही है। शुक्रवार से पश्चिमी मध्य प्रदेश के भोपाल, होशंगाबाद संभाग के कुछ क्षेत्रों में भी बारिश का सिलसिला शुरू हो सकता है। शेष स्थानों पर गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी होने की संभावना बनी रहेगी।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने शनिवार को जानकारी देते हुए बताया कि अक्टूबर का महीना शुरु हो गया है, बावजूद इसके मौसम में बदलाव देखने को मिल रहे हैं। प्रदेश के कई जिलों में बारिश का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है, हालांकि बौछारों के बीच हल्की ठंड ने भी दस्तक दे दी है। मौसम विभाग की मानें तो  बंगाल की खाड़ी में बने ऊपरी हवा के चक्रवात के असर से पूर्वी मध्य प्रदेश में बारिश हो रही है।पिछले चौबीस घंटे में मंडला, मलाजखंड, बैतूल और छिंदवाड़ा समेत कई जिलों में बारिश हुई, वही अगले चौबीस घंटे में मौसम विभाग ने मध्यप्रदेश के 4 संभागों और आधा दर्जन जिलों में बारिश की संभावना जताई है।   मप्र के इन जिलों में फिर बारिश की संभावना, यहां जमकर बरसा पानी मौसम विभाग के अनुसार, उड़ीसा के तट पर बने सिस्टम के कारण बंगाल की खाड़ी से नमी आ रही है। इस वजह से पूर्वी मध्य प्रदेश में बरसात हो रही है। शुक्रवार से पश्चिमी मध्य प्रदेश के भोपाल, होशंगाबाद संभाग के कुछ क्षेत्रों में भी बारिश का सिलसिला शुरू हो सकता है। शेष स्थानों पर गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी होने की संभावना बनी रहेगी।   इन जिलों में गरज-चमक के साथ बौछार के आसारशहडोल, रीवा, जबलपुर, होशंगाबाद सभांग के जिलों में, खंडवा और देवास जिले में।   इन जिलों में गरज के साथ बिजली चमकने की संभावनाहोशंगबाद, शहडोल संभागों के जिलों, सिवनी, मंडला, बालाघाट जिलों में

Dakhal News

Dakhal News 10 October 2020


Jabalpur, Corona patient ,injured, hospital window, injured

जबलपुर। मध्यप्रदेश की संस्कारदानी जबलपुर के सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में दूसरी मंजिल पर बनाए गए बनाए कोविड केयर सेंटर में भर्ती एक कोरोना मरीज ने शुक्रवार सुबह बाथरूम की खिडक़ी से कूदकर जान देने का प्रयास किया। कमर के बल गिरने से वह गंभीर रूप से घायल हो गया। मौके पर मौजूद स्टाफ ने उसे तत्काल अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसे गंभीर हालत में वेंटिलेटर पर रखा गया है।    जानकारी के मुताबिक, कटनी जिले कुआं गाव निवासी सतीश दुबे को कोरोना संक्रमित पाये जाने के बाद गत तीन अक्टूबर को कटनी जिला अस्पताल से जबलपुर जिला अस्पताल रैफर किया गया था। उसकी हालत गंभीर होने पर गत सात अक्टूबर को उसे सुपर स्पेशलिटी हास्पिटल में शिफ्ट किया गया। शुक्रवार तडक़े करीब साढ़े बजे उसने अस्पताल की दूसरी मंजिल पर स्थित बाथरूम की खिडक़ी से नीचे छलांग लगा दी। घटना के बाद अस्पताल में हंगामा मच गया और उन्हें तुरंत गंभीर हालत में वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया है।    बता दें कि जबलपुर के सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में अव्यवस्थाओं को लेकर पहले भी दो कोरोना संक्रमित मरीज यहां दूसरी मंजिल से छलांग लगा चुके हैं। यह इस तरह की यह तीसरी घटना है, जिसमें कोरोना के मरीज ने कूदकर आत्महत्या करने का प्रयास किया है।

Dakhal News

Dakhal News 9 October 2020


seoni, Two people killed, five injured ,car collision,high speed scarves

सिवनी। जिले के लखनादौन थाना क्षेत्र में जबलपुर-नागपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर ग्राम गणेशगंज स्थित पंचवटी ढाबे के पास शुक्रवार को सुबह एक तेज रफ्तार स्कार्पियो (जीप) ने सामने से आ रही कार को जोरदार टक्कर मार दी। इस हादसे में कार सवार दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दोनों वाहनों के पांच लोग घायल हुए हैं। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को लखनादौन के अस्पताल पहुंचाया। वहीं, मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर पुलिस ने मामले को जांच में लिया है।   लखनादौन थाना पुलिस के अनुसार, शुक्रवार को सुबह मारुति कार वाहन क्रमांक एमपी 20, सीसी 0414 में सवार लोग जबलपुर से सिवनी की ओर आ रहे थे। इसी दौरान सिवनी से जबलपुर की तरफ जा रहे तेज रफ्तार स्कार्पियो वाहन क्रमांक 04 सीएम 4112 ने गणेशगंज चौराहे के पास पंचवटी ढाबे के सामने एक बाइक को बचाने के चक्कर में सामने से आ रही कार को टक्कर मार दी। हादसा इतना भीषण था कि मारुति कार के परखच्चे उड़ गए और कार चालक व सामने बैठे व्यक्ति की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। वहीं, दोनों वाहनों के पांच अन्य लोग घायल  हुए हैं, जिन्हें लखनादौन के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया है, जहां उनका उपचार चल रहा है। पुलिस ने मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और फिलहाल मामले की जांच जांच जारी है। अभी मृतकों की पहचान नहीं हो पाई है।   प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, सामने से आ रहे बाइक सवार हो बचाने प्रयास में तेज रफ्तार स्कॉर्पियो वाहन अनियंत्रित हो गया और डिवाइडर पार कर दूसरी साइड पहुंचकर सामने से आ रही कार को टक्कर मार दी। राहगीरों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू की।

Dakhal News

Dakhal News 9 October 2020


bhopal,October 13, Mars, Earth and Sun,come in a straight line

मंगल को होगा मंगल से सामना   भोपाल, 09 अक्टूबर (हि.स.)। खगोल विज्ञान में रुचि रखने वालों की जानकारी के लिये यह बहुत खास है, क्योंकि अगले मंगलवार को उनका मंगल से सामना सामना होगा। आगामी मंगलवार, 13 अक्टूबर को मंगल, पृथ्वी और सूर्य एक सीध में आ रहे हैं। इस दिन शाम के समय जब पश्चिम में सूर्य अस्त हो रहा होगा तो पूर्व में मंगल उदित हो रहा होगा। इस समय सबसे नजदीक होने के कारण यह ग्रह बड़ा एवं स्पष्ट दिखाई देगा।    राष्ट्रीय अवार्ड प्राप्त भोपाल की विज्ञान प्रसारक सारिका घारू ने शुक्रवार को बताया कि इस खगोलीय घटना को मार्स एट अपोजिशन कहा जाता है। उन्होंने बताया कि इस सप्ताह मंगल की पृथ्वी से दूरी भी दूरी घटकर लगभग 6 करोड़ 20 लाख किलोमीटर रह गई है। अब इससे कम दूरी के लिये 11 सितम्बर 2035 का इंतजार करना होगा, जब यह दूरी 5 करोड़ 69 लाख किलोमीटर रहेगी।   सारिका ने बताया कि मंगल का पास आना और मंगल का सीध में आना दो अलग-अलग घटनाएं होती हैं। इस बार 6 अक्टूबर को मंगल पृथ्वी के सबसे पास आया, लेकिन 13 अक्टूबर को मंगल, पृथ्वी और सूर्य एक सीध में होंगे।     उन्होंने बताया कि मंगल और पृथ्वी हर 26 माह बाद एक-दूसरे के पास आ जाते हैं। दोनो ग्रहों के अंडाकार पथ में घूमने के कारण तथा पृथ्वी और मंगल की कक्षा कुछ डिग्री से झुकी होने के कारण इस दूरी का मान घटता-बढ़ता रहता है। वर्ष 2003 में हम मंगल के जितने नजदीक थे, उतनी नजदीकी तो अब 2287 में आ पायेगी। हर दो साल में आने वाली नजदीकी के समय मंगल पर अंतरिक्ष अभियान भेजने का सबसे अच्छा समय होता है। नासा का पर्सेवेरेन्स रोवर मंगल की यात्रा पर है, जो कि फरवरी 2021 में मंगल पर उतरेगा। इसके अलावा यूएई और चीन के भी अंतरिक्षयान मंगल की यात्रा कर रहे हैं।   शनि और गुरु भी बढ़ा रहे हैं नजदीकियां   उन्होंने बताया कि इस समय आकाश में 20 साल बाद गुरू और शनि भी अपनी नजदीकियां बढ़ा रहे हैं, इसलिये शाम के समय जब आप आकाश में देखेंगे तो चमकता गुरु और उसके साथ जोड़ी बनाता शनि दिखेगा। इसके साथ ही पूर्व दिशा में लालिमा के साथ तेज चमकता नजदीकी मंगल का दीदार होगा। चंद्रमा भी इस समय देर रात को उदित होगा इसलिये उसकी चमक भी इन्हें देखने में बाधा नहीं बनेगी।  

Dakhal News

Dakhal News 9 October 2020


gwalior, Mining mafia, also active ,range along , Ghatigaon

ग्वालियर। जिले के घाटीगांव क्षेत्र के जंगलों में तो लंबे समय से फर्शी पत्थर का अवैध खनन चल ही रहा है, लेकिन अब ग्वालियर वन परिक्षेत्र में भी खनन माफिया सक्रिय हो गए हैं। वन विभाग के उडऩदस्ता द्वारा बीलपुरा वन चौकी क्षेत्र के अंतर्गत दो दिन में ही अलग-अलग स्थानों से अवैध रूप से उत्खनित करीब सात घनमीटर फर्शी पत्थर जब्त किया गया है।   सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्य वन संरक्षक एवं वन मंडल अधिकारी के निर्देशन में खनन माफिया के विरुद्ध कार्रवाई के लिए वन अमले के साथ उडऩदस्ते को प्रतिदिन अलग-अलग वन चौकी क्षेत्रों में भेजा जा रहा है। इसी क्रम में उडऩदस्ता गुरुवार को ग्वालियर वन परिक्षेत्र की बीलपुरा वन चौकी क्षेत्र के अंतर्गत कैंथा घाटी से आगे तालपुरा वन क्षेत्र में पहुंचा, जहां अवैध खनन पाया गया। मौके से करीब तीन घनमीटर फर्शी पत्थर सहित तमाम औजार जब्त किए गए। इससे पहले बुधवार को उडऩदस्ता ने बीलपुरा वन चौकी के अंतर्गत ही महेश्वरा उत्तर वन क्षेत्र में दो स्थानों से करीब चार घनमीटर फर्शी पत्थर जब्त किया था। इस कार्रवाई में बीलपुरा वन चौकी का स्टाफ भी शामिल था।

Dakhal News

Dakhal News 8 October 2020


dhar,Arms smuggler ,arrested with, eight country pistols, two kattas

धार, 08 अक्टूबर (हि.स.)। जिले की तिरला थाना पुलिस ने एक अन्तराज्यीय हथियार तस्कर को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। आरोपी मध्यप्रदेश , गुजरात , एवं अन्य राज्यों में सप्लाई करता रहा हैं। पुलिस ने उसके पास से 08 देशी पिस्टल व दो कट्टे भी बरामद किए हैं।   अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक देवेंद्र पाटीदार ने बताया कि हथियार तस्कर जालिमसिंह 42 वर्ष पुत्र गुरमुखसिंह जाति सिकलीगर निवासी ग्राम सिंघाना थाना मनावर को आठ नग देशी पिस्टल व दो नग 12 बोर के देशी कट्टे तथा 15 नग जिंदा कारतुस कुल किमती 2 लाख रूपये एवं बिना नंबर की मोटर सायकल सहित पकड़ा। थाना प्रभारी तिरला को मुखबिर सूचना मिली थी कि जालिमसिंह सिकलीगर बिना नंबर की मोटर सायकल से हथियारों का जखीरा लेकर आने वाला है। मुखबिर की सूचना पर बोधवाडा चौराहे पर मय फोर्स घेराबंदी कर जालिगसिंह को पकडा गया। पीछे टँगे हुए बैग को चेक करने पर आठ नग लोहे की बनी देशी पिस्टल व दो नग देशी 12 बोर के लोहे के कट्टे तथा पिस्टल के 15 नग जिंदा कारतूस मिले । आरोपी जालिमसिंह ने पुछताछ पर बताया कि वह कई वर्षों से अवैध रूप से हथियार बनाकर धार , मनावर , रतलाम , गुजरात , एवं अन्य राज्यों में बेच रहा है । रतलाम . मनावर , व गुजरात में  पूर्व में भी अवैध हथियार तस्करी में उक्त आरोपी को गिरफ्तार किया जा चुका है । 

Dakhal News

Dakhal News 8 October 2020


Anuppur, 13 new, corona infected, 17 people leave healthy

अनूपपुर। स्वास्थ्य विभाग की जानकारी अनुसार गुरुवार को प्राप्त 152 रिपोर्ट में 13 व्यक्तियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। जिसमे 6 पुरूष, 7 महिलाएँ शामिल हैं। जो जैतहरी में 4, जमुना एवं कोतमा में 2-2, अनूपपुर, अमलाई, राजनगर, भालूमाड़ा एवं बदरा में 1-1 संक्रमित पाए गए।   रिपोर्ट प्राप्त होते ही स्वास्थ्य विभाग के दिशा निर्देशों अनुसार सक्रमितों को कोविड केयर सेंटर भेजने व होम आइसोलेशन हेतु निर्देशित करने, सम्बंधित कंटेनमेंट क्षेत्रों में स्क्रीनिंग एवं संक्रमितों के सम्पर्क मेंलेने की कार्यवाही की जा रही है।   उल्लेखनीय है कि अब तक प्राप्त कोरोना जाँच रिपोर्ट में जिले में 1230 व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। वर्तमान में सक्रिय 124 है। गुरूवार को 17 व्यक्ति स्वस्थ होने पर रवाना किया गया। अब तक 1096 कोरोना संक्रमित स्वस्थ होकर जा चुके हैं तथा 10 की मृत्यु हो चुकी है। अब तक 17464 सैम्पल कोरोना जाँच हेतु भेजे जा चुके हैं।

Dakhal News

Dakhal News 8 October 2020


bhopal, Thunderstorms, likely many districts, state including capital

भोपाल। मानसून के खत्म होने के बावजूद ओडिशा के दक्षिणी हिस्से में कम दबाव का क्षेत्र बना है, जिसके चलते मध्यप्रदेश के मौसम में बदलाव देखने को मिल रहा है।  भोपाल, रीवा, शहडोल और जबलपुर में मौसम में गुरुवार- शुक्रवार में बदलाव आने की संभावना है। इसके बाद मध्यप्रदेश के कई हिस्सों से मानसून की विदाई भी होने की संभावना है। मौसम विभाग ने प्रदेश के कई संभागों और जिलों में बारिश की संभावना जताई है। वही बिजली चमकने के भी आसार है।   प्रदेश से मानसून विदाई की ओर है, अक्टूबर के तीसरे सप्ताह तक प्रदेश भर से मानसून की विदाई हो जाएगी। राजधानी भोपाल में गुरुवार सुबह से हल्के बादल छाने के साथ ही ठंडी हवा चल रही है। मौसम विभाग की माने तो इस सिस्टम के आगे बढऩे पर सात अक्टूबर को पश्चिमी मप्र में कई स्थानों पर बरसात होगी। आठ अक्टूबर को राजधानी में भी गरज-चमक के साथ तेज बौछारें पडऩे की संभावना है। इंदौर में 7 अक्टूबर और भोपाल में 8 अक्टूबर को हल्की बारिश होने की संभावना है। मानसून 10 अक्टूबर के बाद प्रदेश से विदाई ले लेगा। आने वाले 4 से 5 दिनों में भोपाल में जाते हुए बादल बारिश करके जाएंगे। गुजरात में बने चक्रवात के कारण हल्के हल्के बादल छाए रहेंगे। रात को मौसम ठंडा बना रहेगा, हालांकि ठंड की शुरुआत 15 नवंबर के बीच होगी और दिसंबर के मध्य या तीसरे हफ्ते में कोल्ड डे  की शुरुआत हो जाएगी। चौथे सप्ताह में शीत लहर चलना शुरू हो जाएगी।   10 व 11 अक्टूबर को इंदौर में हल्की बूंदाबांदी होगीइंदौर में पिछले दो दिन में धूप अच्छी निकलने के कारण दिन के तापमान में इजाफा हो रहा है जिसके कारण गर्मी महसूस हो रही हैं, वहीं रात में उत्तरी हवाएं चलने व अभी आद्र्रता कम होने के कारण रात में ठंडक महसूस हो रही है। मौसम विज्ञान के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ अब लगातार आ रहे हैं। इसके कारण मौसम में ये बदलाव देखने को मिल रहा है। नौ अक्टूबर को कम दबाव का क्षेत्र उत्तरी अंडमान समुद्र में बन रहा है, जो आगे चलकर अवदाब में बदलेगा। यह दक्षिणी ओडिशा और उत्तरी आंध्रप्रदेश तट पर पहुुंचेगा और वहां से पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा की ओर बढ़ेगा। इसका असर महाराष्ट्र व विदर्भ तक होगा जबकि पश्चिमी मप्र में कम होगा। इंदौर में 10 व 11 अक्टूबर को हल्की बूंदाबांदी होने की संभावना है। पिछले वर्ष 12 अक्टूबर को मानसून की विदाई हुई थी। इस वजह से इस बार अक्टूबर के तीसरे सप्ताह के अंत तक इंदौर के मानसून के विदाई की उम्मीद है।   इन जिलों में गरज चमक के साथ बौछारों के आसाररीवा और शहडोल संभाग के जिलों में, सिवनी, मंडला, बालाघाट जिलों।   गरज के साथ बिजली चमकने की संभावनारीवा और शहडोल संभागों जिलों में, सिवनी, मंडला, बालाघाट जिले में भी।

Dakhal News

Dakhal News 8 October 2020


bhopal, 3500 doctors , state will go , strike from Thursday, regarding Sagar case

भोपाल। ऐसे समय में जबकि पूरा प्रदेश कोरोना संकट से जूझ रहा है, एक और मुसीबत दस्तक दे रही है। सागर की घटना को लेकर गुरुवार से प्रदेश के सभी 13 सरकारी मेडिकल कॉलेज के करीब 3500 डॉक्टर हड़ताल पर चले जाएंगे। अगर इस हड़ताल में जूनियर डॉक्टर भी शामिल होते हैं, तो हालात और खराब हो सकते हैं।    प्रदेश में डॉक्टर्स की हड़ताल से सबसे ज्यादा परेशानी अस्पताल में भर्ती कोरोना मरीजों को होगी। इलाज ना मिलने की स्थिति में कोरोना मरीजों की हालत गंभीर हो सकती है। प्रदेश की राजधानी भोपाल के हमीदिया अस्पताल के आईसीयू में ही 126 कोरोना संक्रमित भर्ती हैं। इनमें से 28 गंभीर है 8 मरीज वेंटिलेटर पर हैं।  वेंटीलेटर पर रखे गए मरीजों को लगातार निगरानी की जरूरत होती है। ऐसे में हालात ऐसे में हड़ताल इन के लिए जानलेवा साबित हो सकती है।   यह है मामलाडॉक्टर्स का यह विरोध सागर में हुई एक घटना के चलते हो रहा है।  सागर मेडिकल कॉलेज में एक डॉक्टर ने कोरोना की जांच के बाद लक्षणों के आधार पर मरीज को कोविड केयर सेंटर में एडमिट कर दिया। डॉक्टर के मुताबिक मरीज की स्थिति बिलकुल सामान्य थी। दूसरे अस्पताल ले जाते समय रास्ते में मरीज की मौत हो गई। परिजनों की शिकायत पर कलेक्टर ने कॉलेज प्रबंधन से मामले की जांच करवाई। कॉलेज प्रबंधन ने रिपोर्ट में डॉक्टरी जांच को बिल्कुल सही बताया। उसके बाद कलेक्टर ने कॉलेज डीन की रिपोर्ट को ना मानते हुए मध्यप्रदेश मेडिकल काउंसिल से डॉक्टर का लाइसेंस निरस्त करने की अनुशंसा कर दी। कलेक्टर की कर्रवाई से पूरे प्रदेश के डॉक्टर नाराज हो गए है। मेडिकल टीचर्स एसोसिएशन मध्यप्रदेश के सचिव डॉक्टर राकेश मालवीय का कहना है कि प्रशासनिक अधिकारी कॉलेज डीन की रिपोर्ट को गलत बता रहे हैं,  ऐसे तो सभी 3500 डॉक्टरों के लाइसेंस सस्पेंड कर देना चाहिए।

Dakhal News

Dakhal News 7 October 2020


indore,482 new cases,corona found, six people also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद यहां कोरोना संक्रमित मरीजों के साथ-साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। अब यहां कोरोना के 482 नये मामले सामने आए हैं, जबकि छह लोगों की मौत हुई है। इसके बाद इंदौर में संक्रमित मरीजों की संख्या 27,289 और मृतकों की संख्या 608 हो गई है। इंदौर में लगातार 18वें दिन कोरोना के 400 से अधिक नये संक्रमित मिले हैं। यहां एक दिन में सर्वाधिक 495 नये संक्रमित मिलने का रिकॉर्ड है।   इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने बुधवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा मंगलवार देर रात 3713 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 482 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 27,289 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से छह लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 608 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 22,127 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 4554 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 7 October 2020


bhopal,Hookah was smoking, hotel late night, 17 including, hotel owner arrested

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में हुक्का का क्रेज लगातार बढ़ता जा रहा है। यहां युवा देर रात तक होटलों-हुक्काबारों में हुक्का गुडग़ुड़ाते हैं। पुलिस ने शहर के बागसेवनिया थाना इलाके में बीती रात छापामार कार्रवाई करते हुए एक होटल में हुक्का गुडग़ुड़ाते हुए 17 युवकों को गिरफ्तार किया है, जिनमें होटल मालिक भी शामिल है। पुलिस ने इन सभी पर कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन करने और तंबाकू-सिगरेट ऐक्ट की धाराओं में केस दर्ज किया गया है।   बागसेवनिया थाना पुलिस के अनुसार, मुखबिर से सूचना मिली थी कि ओमनगर स्थित प्ले बॉय प्लेनेट होटल के हुक्का बार में देर रात पार्टी चल रही है। सूचना के आधार पर पुलिस ने सोमवार देर रात करीब 11.30 बजे होटल पर छापामार कार्रवाई की। इस दौरान वहां 16 युवक हुक्का गुडग़ुड़ाते हुए मिले। पुलिस का कहना है कि होटल मालिक शासन के दिशा निर्देश का उल्लंघन कर देर रात्रि बार का संचालन कर लोगों को हुक्का पीला रहा था। पुलिस ने होटल मालिक समेत 17 लोगों को गिरफ्तार किया, साथ ही मौके से सात पाइप और 7 मिंट फ्लेवर भी बरामद किये हैं।    पुलिस ने जिन लोगों को पकड़ा है, उनके नाम शाहवर (हुक्का बार मालिक), अमित पटेल, अनुज, दीपेश साहू, सुरेंद्र प्रजापति, नोमान अहमद, सिद्धार्थ मंडल, उत्कर्ष वाजपेयी, शिखर मलिक, ऋषि शर्मा, छत्रपाल प्रजापति, अनिकेत यादव, अंकित पटेल, राजेन्द्र धाकड़, सत्यम पटेल, अनुराग पटेल, फराज हुसैन बताये गये हैं। पुलिस ने सभी के खिलाफ कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन करने और तंबाकू-सिगरेट ऐक्ट की धाराओं में केस दर्ज कर मामले को जांच में लिया है।

Dakhal News

Dakhal News 6 October 2020


bhopal,By the second,third week of October, monsoon will depart,many districts

भोपाल। मध्य प्रदेश से मानसून विदा हो रहा है। राजधानी भोपाल मे मौसम पूरी तरह से साफ है। दिन भर धूप निकलने के साथ हल्की ठंड का एहसास हो रहा है। हालांकि वर्तमान में कम दबाव का क्षेत्र पश्चिम बंगाल व ओडिशा के तट पर पर बना है, जिसके कारण पूर्वी मप्र में बारिश हो रही है। वही इसके प्रभाव से मानसून की वापसी से पहले आने वाले एक दो दिनों में इंदौर और भोपाल समेत कई जिलों में बारिश की संभावना है। मौसम विभाग ने मध्य प्रदेश के कई जिलों में गरज चमक के साथ बारिश की संभावना जताई है। मौसम विभाग की माने तो अगले चौबीस घंटे में  रीवा, जबलपुर और शहडोल संभाग के साथ साथ प्रदेश के आधा दर्जन जिलों में बारिश के आसार है, बाकी जिले शुष्क रहेंगे।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि अभी कम दबाव का क्षेत्र पश्चिम बंगाल व ओडिशा के तट पर पर बना है। इसके कारण पूर्वी मप्र में बारिश हो रही है। इस सिस्टम के आगे बढऩे पर सात अक्टूबर को पश्चिमी मप्र में कई स्थानों पर बरसात होगी। आठ अक्टूबर को राजधानी में भी गरज-चमक के साथ तेज बौछारें पडऩे की संभावना है। मानसून 10 अक्टूबर के बाद प्रदेश से विदाई ले लेगा। आने वाले 4 से 5 दिनों में भोपाल में जाते हुए बादल बारिश करके जाएंगे। इंदौर में 7 अक्टूबर और भोपाल में 8 अक्टूबर को हल्की बारिश होने की संभावना है।   मौसम विभाग के अनुसार अक्टूबर के दूसरे-तीसरे सप्ताह तक प्रदेश भर से मानसून की विदाई हो जाएगी। गुजरात में बने चक्रवात के कारण हल्के हल्के बादल छाए रहेंगे। रात को मौसम ठंडा बना रहेगा, हालांकि ठंड की शुरुआत 15 नवंबर के बीच होगी और दिसंबर के मध्य या तीसरे हफ्ते में कोल्ड डे की शुरुआत हो जाएगी। चौथे सप्ताह में शीत लहर चलना शुरू हो जाएगी।   इन जिलों में गरज चमक के साथ बौछारों के आसाररीवा, शहडोल, जबलपुर संभागों के जिलों।   गरज के साथ बिजली चमकने की संभावनारीवा और शहडोल संभागों जिलों में ,कटनी, जबलपुर जिले में भी।

Dakhal News

Dakhal News 6 October 2020


dhar, Madhya Pradesh, Tanker collides , pickup, 6 dead, 20 injured

धार। मध्य प्रदेश के धार जिले में सोमवार देर रात इंदौर-अहमदाबाद राष्ट्रीय राजमार्ग के किनारे खड़ी एक पिकअप वाहन में तेज रफ्तार टैंकर ने पीछे से टक्कर मार दी। दुर्घटना में तीन बच्चे और दो महिलाओं समेत 6 लोगों की मौत हो गई। जबकि 24 से अधिक लोग घायल हो गए हैं। पुलिस ने सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया है।   पुलिस के अनुसार यह हादसा तिरला थाना अंतर्गत इंदौर-अहमदाबाद राष्ट्रीय राजमार्ग पर हुआ है। टांडा कोदी के मजदूर पिकअप वाहन में सवार होकर केसूर से सोयाबीन कटाई करने गए थे। देर रात वे सभी घर लौट रहे थे। रात 12.30 बजे तिरला थाना अंतर्गत फोरलेन पर ग्राम चिखलिया फाटे के पास पिकअप पंचर हो गई। चालक वाहन को सड़क के किनारे खड़ा कर टायर बदलने लगा। कुछ मजदूर भी गाड़ी से उतरकर चालक की मदद कर रहे थे,  तभी तेज रफ्तार एक टैंकर ने पीछे से पिकअप में टक्कर मार दी।   घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने बताया कि टक्कर इतनी जोरदार थी कि कुछ मजदूर दूर जा गिरे और छह लोगों की मौत हो गई। जबकि 24 मजदूर घायल हो गए हैं। चार मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई और दो लोगों ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। मृतकों में 10 साल का जितेंद्र पुत्र कब्बू, 12 साल का रादेश पुत्र कैलाश, 15 साल का संतोष पुत्र तेर सिंह, 35 वर्षीया शर्मिला पत्नी मोहब्बत, 25 वर्षीया भूरीबाई पत्नी मोहन और 40 वर्षीय कुंवर सिंह पुत्र दितला शामिल हैं। घायलों में दो की हालत नाजुक बनी हुई है। उन्हें इंदौर भेज दिया गया है। बाकी घायलों का धार जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है। वहीं घटना के बाद टैंकर चालक फरार हो गया। तिरला थाना पुलिस उसे तलाश रही है।

Dakhal News

Dakhal News 6 October 2020


morena, you want development, BJP candidates, should win, Narendra Singh

मुरैना। आगामी दिनों में होने वाले विधानसभा के उप चुनावों को लेकर सोमवार को जिले की तीन विधानसभा क्षेत्रों में भाजपा के कार्यकर्ता सम्मेलन हुए। इन सम्मेलनों में केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर खासतौर से उपस्थित रहे। सम्मेलनों में केन्द्रीय मंत्री ने कार्यकर्ताओं से उप चुनाव में जी जान से जुट जाने का आव्हान किया। आज कार्यकर्ता सम्मेलन मुरैना, सुमावली एवं जौरा विधानसभा के क्षेत्रों में हुए।   मुरैना शहर में निवास करने वाले भाजपा कार्यकर्ताओं का सम्मेलन पंचायती धर्मशाला में संपन्न हुआ। इस मौके पर कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन करते हुए केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि अब समय आ गया है कि हम अपने प्रत्याशी को जीत दिलाने के लिए जी जान से जुट जाऐं। जनता कांग्रेस के कुशासन को देख चुकी है। लेकिन इसके बावजूद हमें जनता तक अपनी बात पहुंचानी पड़ेगी। उन्होंने कहा कि अगर शिवराज सिंह के हाथ मजबूत करना है तो रघुराज सिंह कंषाना को जिताना ही होगा। इस अवसर पर प्रदेश के सूक्ष्म लघु उद्योग मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा, पूर्व मंत्री रुस्तम सिंह, मुंशीलाल, जिलाध्यक्ष योगेशपाल गुप्ता, पूर्व विधायक शिवमंगल सिंह तोमर,  विधानसभा संयोजक श्रीबल्लभ डण्डौतिया, विधानसभा प्रभारी अभय  चौधरी, निगम सभापति अनिल गोयल आदि मंचासीन थे।   सुमावली विधानसभा के कार्यकर्ताओं का सम्मेलन पीएचई मंत्री ऐंदल सिंह कंषाना के निवास पर हुआ। सम्मेलन में हजारों लोग उपस्थित थे। यहां पर केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने अपने संबोधन में ऐंदल सिंह कंषाना को भारी मतों से जिताने का संकल्प दिलाया। तोमर ने कहा कि कंषाना की जीत भविष्य में भाजपा सरकार का भविष्य तय करेगी। इस मौके पर पूर्व विधायक गजराज सिंह सिकरवार सहित रामनरेश शर्मा, हमीर पटेल, केडी डण्डौतिया, दिलीप मिश्रा आदि उपस्थित थे।   इसी प्रकार जौरा विधानसभा क्षेत्र स्थित कैलारस एवं पहाडग़ढ़ मंडल के कार्यकर्ता सम्मेलन हुआ। इस मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कार्यकर्ताओं से कहा कि अगले माह होने वाला उप चुनाव कार्यकर्ताओं की परीक्षा की घड़ी है। इस परीक्षा में हम और आप सब को खरा उतरना होगा। उन्होंने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि पार्टी जिसको भी प्रत्याशी बनाए वह पार्टी का प्रत्याशी होगा एवं कार्यकर्ता को बिना मनमुटाव किए हुए उसको विजयी बनाने के लिये काम करना है। तोमर ने कहा कि कार्यकर्ता सम्मान में कोई कमी नहीं आयेगी। इस अवसर पर  रीवा सांसद जनार्दन मिश्रा, पूर्व विधायक दुर्गालाल विजय, जिलाध्यक्ष योगेश पाल गुप्ता, पूर्व विधायक सूबेदार सिंह रजोधा सहित अनूप सिंह भदौरिया, कमलेश कुशवाह, अजब सिंह सिकरवार, प्रकाश त्यागी आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 5 October 2020


bhopal, State Wildlife Week, Chirping birds, welcome guests

भोपाल। राज्य वन्य-प्राणी के पाँचवें दिन सोमवार को भोपाल के वन-विहार राष्ट्रीय उद्यान में सुबह-सुबह आए प्रतिभागियों का चहचहाते पक्षियों ने स्वागत किया। इन पक्षियों में किंग फिशर, वूली नेक स्टार्क, कार्मोरेंट, लेसर विसलिंग टील, इग्रेट, रेड मुनिया, ग्रीन बी ईटर, बुलबुल, ब्लेक रेड स्टार्ट, एशी प्रीनिया, जकाना, डब, हेरोन जैसे विविध प्रकार के पक्षी शामिल थे। प्रकृति शिविर में रिसोर्स पर्सन के रूप में पक्षी विशेषज्ञ एके खरे, सुदेश वाघमारे, मो. खालिक एवं डॉ. संगीता राजगीर ने प्रतिभागियों को इन पक्षियों की विशेषताओं से अवगत कराया।इसी दिन 'वन्य-प्राणी'' थीम पर मेहंदी प्रतियोगिता और पाम पेंटिंग प्रतियोगिता आयोजित हुई, जिसमें 44 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। इसके अलावा फैंसी ड्रेस ऑनलाइन प्रतियोगिता में 14 प्रतिभागियों ने भाग लिया। चयनित प्रविष्टियों का ऑनलाइन प्रसारण www.facebook.com पर मंगलवार को अपरान्ह 4 से 5 बजे तक और पुन: 7 अक्टूबर को सुबह 9 से 9.30 बजे तक किया जायेगा।मंगलवार को होगा गुलाबी शिविर का आयोजनराज्य वन्य-प्राणी सप्ताह के छठवें दिन मंगलवार, 06 अक्टूबर को महिलाओं के लिये पक्षी-दर्शन एवं प्रकृति शिविर (गुलाबी शिविर) आयोजित होगा। प्रात: 11 से दोपहर एक बजे तक सृजनात्मक कार्यशाला एवं प्रतियोगिता आयोजित होगी।

Dakhal News

Dakhal News 5 October 2020


Rewa, gang-rape , widow woman, condition critical

रीवा। हाथरस मामले को लेकर पूरा देश आक्रोषित है। ऐसे में मप्र के रीवा जिले में एक ओर सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। जिले के शाहपुर थाना के खटखरी चौकी क्षेत्र अंतर्गत एक विधवा महिला से सामूहिक दुष्कर्म का आरोप पीडि़त के परिजनों द्वारा लगाया गया है। महिला को गंभीर हालत में रीवा के संजय गांधी अस्पताल में भर्ती किया गया है, जहां उसका उपचार जारी है। पीडि़त के पुत्र के बयान के आधार पर पुलिस ने अज्ञात आरोपितों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म सहित एसटी एससी एक्ट का मामला दर्ज किया है और संदेह के आधार पर कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।   पीडि़त विधवा महिला के पुत्र के अनुसार, घटना 30 सितम्बर की रात है। उसने बताया कि समीपस्थ ग्राम का रहने वाला अरुण सिंह ठाकुर ने उस रात अपने पांच साथियों के साथ उसके घर के सामने शराब पी और उसकी मां को जबरन अपने साथ लेकर चले गए। परिजनों द्वारा रात में उसे खोजने का प्रयास किया, लेकिन कहीं पता नहीं चला। दूसरे दिन पता चला कि उसकी मां रीवा के संजय गांधी अस्पताल में भर्ती है। पीडि़त महिला के पुत्र ने बताया कि जब हम अस्पताल पहुंचे तो पता चला कि माँ के साथ सामूहिक दुष्कर्म हुआ है। इसकी सूचना मैंने पुलिस अधीक्षक को दी, उसके बाद रविवार देर रात महिला थाने में प्रकरण दर्ज किया गया। बताया गया है कि पांच दिनों से महिला गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती है और उसका आईसीयू में उपचार चल रहा है। अस्पताल प्रबंधन तथा पुलिस ने मामले को दबाने का प्रयास किया, लेकिन एसपी के निर्देश पर प्रकरण पंजीबद्ध हुआ, तब जाकर मामला सामने आया।   इस संबंध में महिला थाना प्रभारी आराधना सिंह परिहार ने बताया कि पीडि़त के पुत्र के बयान के आधार पर अज्ञात लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया है। मैं स्वयं पीडि़त के बयान लेने के लिए अस्पताल पहुंची थी, लेकिन वह बोलने की स्थिति में नहीं है। पुलिस अभी मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। कुछ लोगों को संदेह के आधार पर गिरफ्तार किया गया है और उनसे पूछताछ की जा रही है।   रीवा एसपी राकेश कुमार सिंह का कहना है कि महिला थाने में पीडि़त के पुत्र के बयान पर प्रकरण दर्ज किया गया है और पुलिस मामले की जांच कर रही है। सभी पहलुओं की जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। 

Dakhal News

Dakhal News 5 October 2020


bhopal, New system built, over Bay of Bengal, possibility of rain

भोपाल। पिछले दिनों मध्य प्रदेश के पश्चिमी और दक्षिणी पश्चिमी जिलों में रुक-रुक कर हल्की वर्षा देखने को मिली है। जबकि बाकी हिस्सों में मौसम लगभग शुष्क बना रहा। मॉनसून की वापसी उत्तर भारत से हो गई है लेकिन अभी मध्य प्रदेश से इसकी वापसी में कुछ दिनों का समय लग सकता है, क्योंकि एक निम्न दबाव का क्षेत्र बंगाल की खाड़ी पर बना है जो मॉनसून की वापसी की राह में बाधा बनेगा।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक ममता यादव ने शनिवार को जानकारी देते हुए बताया कि निम्न दबाव का क्षेत्र उत्तरी बंगाल की खाड़ी पर है। यह निम्न दबाव का क्षेत्र उत्तर पश्चिम दिशा में आगे बढ़ेगा जिसके प्रभाव से 5 अक्टूबर से 8 के बीच मध्य प्रदेश के पूर्वी जिलों में हल्की से मध्यम वर्षा होने की संभावना है। उस दौरान शहडोल, सिंगरौली, उमरिया, डिंडोरी, अनूपपुर, मांडला, जबलपुर, कटनी, सतना, दमोह, सिवनी तथा सागर आदि जिलों में बारिश हो सकती है। वहीं पश्चिमी मध्य प्रदेश के जिलों में अधिकांश समय मौसम लगभग शुष्क रहने की संभावना है। हालांकि 7 या 8 अक्टूबर को पश्चिमी जिलों में भी छिटपुट जगहों पर हल्की वर्षा देखने को मिल सकती है। अगले 2-3 दिनों के दौरान मध्य प्रदेश के पश्चिमी जिलों में उत्तर पश्चिमी दिशा से शुष्क हवाएं चलेंगी जिसके प्रभाव से रात के तापमान में हल्की गिरावट संभव है।

Dakhal News

Dakhal News 3 October 2020


bhopal, One IPS officer ,transferred in MP, additional charge ,given to two

भोपाल। मध्यप्रदेश में उपचुनाव की तारीखों की घोषणा होने के बाद भी अधिकारियों-कर्मचारियों के तबादलों का दौर जारी है। इसी क्रम में राज्य शासन द्वारा अब भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के तीन अधिकारियों की नयी पदस्थपना की गई है। इनमें एक आईपीएस अधिकारी का तबादला किया गया है, जबकि दो अधिकारियों को वर्तमान दायित्व के साथ अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है। इस संबंध में गृह विभाग द्वारा शनिवार को आदेश जारी किये गये हैं।   जारी आदेश के मुताबिक, आपदा प्रबंधन एवं होमगार्ड के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक डीसी सागर का तबादला करते हुए उन्हें पुलिस मुख्यालय भोपाल में पीटीआरआई का अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक नियुक्त किया गया है। वहीं, पुलिस मुख्यालय भोपाल में एसआईएसएफ के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक जी अखेतो सेमा को वर्तमान कार्य के साथ आपदा प्रबंधन के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक तथा पुलिस मुख्यालय भोपाल में सतर्कता पुलिस महानिरीक्षक ए. साईं मनोहर को अपने वर्तमान कार्य के साथ साइबर क्राइम भोपाल के पुलिस महानिदेशक का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है।

Dakhal News

Dakhal News 3 October 2020


indore, 481 new cases , corona found ,seven people also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद यहां कोरोना संक्रमित मरीजों के साथ-साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। अब यहां कोरोना के 481 नये मामले सामने आए हैं, जबकि सात लोगों की मौत हुई है। इसके बाद इंदौर में संक्रमित मरीजों की संख्या 25,451 मृतकों की संख्या भी 585 हो गई है। इंदौर में लगातार 14वें दिन कोरोना के 400 से अधिक नये संक्रमित मिले हैं। इससे पहले यहां एक दिन में सर्वाधिक 495 नये संक्रमित एक दिन पहले ही मिले थे।    इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने शनिवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा शुक्रवार देर रात 3166 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 481 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 25,451 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से सात लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 585 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 20,348 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 4500 के करीब है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 3 October 2020


indore, 481 new cases , corona found ,seven people also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद यहां कोरोना संक्रमित मरीजों के साथ-साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। अब यहां कोरोना के 481 नये मामले सामने आए हैं, जबकि सात लोगों की मौत हुई है। इसके बाद इंदौर में संक्रमित मरीजों की संख्या 25,451 मृतकों की संख्या भी 585 हो गई है। इंदौर में लगातार 14वें दिन कोरोना के 400 से अधिक नये संक्रमित मिले हैं। इससे पहले यहां एक दिन में सर्वाधिक 495 नये संक्रमित एक दिन पहले ही मिले थे।    इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने शनिवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा शुक्रवार देर रात 3166 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 481 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 25,451 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से सात लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 585 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 20,348 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 4500 के करीब है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 3 October 2020


Rajgarh, Scorched child, due to tea fall, condition critical

राजगढ़। जिला मुख्यालय के समीपस्थ ग्राम मोहनपुरा में शुक्रवार को चाय गिरने से 4 वर्षीय बालक बुरी तरह से झुलस गया, परिजन उसे गंभीर हालत में सिविल अस्पताल ब्यावरा लेकर पहुंचे, जहां से प्राथमिक चिकित्सा के बाद भोपाल रेफर किया गया है।   संजीवनी 108 वाहन के डाॅ.अभिषेक वर्मा ने बताया कि ग्राम मोहनपुरा निवासी ईश्वर (4) पुत्र बनेसिंह चाय गिरने से बुरी तरह झुलस गया। बालक का पहले सिविल अस्पताल में उपचार किया गया, जहां हालत बिगड़ने पर भोपाल रेफर किया गया है। बताया गया है चाय से बालक का पेट और पैर बुरी तरह झुलस गए हैं।

Dakhal News

Dakhal News 2 October 2020


indore, record 495, new cases, corona found, six people also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद यहां कोरोना संक्रमित मरीजों के साथ-साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। अब यहां कोरोना के रिकॉर्ड 495 नये मामले सामने आए हैं, जबकि छह लोगों की मौत हुई है। इसके बाद इंदौर में संक्रमित मरीजों की संख्या 24,970 मृतकों की संख्या भी 578 हो गई है। इंदौर में लगातार 13वें दिन कोरोना के 400 से अधिक नये संक्रमित मिले हैं। इससे पहले यहां एक दिन में सर्वाधिक 482 नये संक्रमित मिले थे।    इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने शुक्रवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा गुरुवार देर रात 3956 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 495 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 24,970 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से छह लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 578 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 19,825 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 4567 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है।   नये मरीजों में कांग्रेस के इंदौर शहर अध्यक्ष विनय बाकलीवाल भी शामिल हैं। दरअसल, गत दिवस उन्हें सदी-जुकाम की शिकायत होने के बाद अपनी कोरोना जांच कराई थी, जिसमें उनकी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है।

Dakhal News

Dakhal News 2 October 2020


bhopal, Continuation, Monsoon farewell, MP, now temperature

भोपाल। मध्य प्रदेश से विदाई का सिलसिला शुरू हो गया है। इसी के साथ राजधानी भोपाल में अब मानसून की विदाई के दिन करीब आ गए हैं। यहां पर हल्की ठंड के साथ दिन में उमस बनी हुई है। मौसम विभाग के अनुसार, ग्वालियर और उज्जैन संभाग से मानसून की विदाई का सिलसिला शुरू हो गया है। हालांकि पूरे मध्य प्रदेश से अब तक मानसून की विदाई नहीं हुई है। कई जगह अभी भी छिटपुट बारिश हो रही है।   वहीं, राजधानी भोपाल के लिए माना जा रहा था कि मानसून 5 अक्टूबर तक भोपाल से विदाई ले लेगा। शहर से मानसून की विदाई में थोड़ा और समय लग सकता है। ये तारीख आने वाली 5 अक्टूबर के बाद यानी एक और हफ्ते आगे बढ़ गई है। मानसून के राजधानी भोपाल से विदाई का समय 22 सितंबर तय किया गया था, लेकिन अब यहां पर मानसून की विदाई 5 से 10 अक्टूबर तक मानी जा रही है।   धीरे-धीरे कम हो रहा है तापमान मप्र में ठंडक ने भी 33 दिन पहले दस्तक दे दी। देर रात से सुबह तक ठंडक महसूस होने लगी। रात होते ही तापमान गिरने लगा है। वहीं लोगों को गर्मी से हल्की राहत भी मिल रही है। भोपाल में रात का तापमान 22.2 डिग्री दर्ज किया गया। बता दें कि पूरे मध्य प्रदेश में तय समय से एक दिन पहले मानसून ने दस्तक दी थी तो वहीं राजधानी भोपाल में तय दिन से एक दिन पहले यानी 16 जून को मानसून पहुंचा था। मानसून आने के 107 दिन में 53.82 इंच बारिश हुई है, जो कि सामान्य से 10 इंच से भी ज्यादा है। वहीं इस बार प्रदेश के सभी जिलों में लगभग बारिश ज्यादा हुई है।

Dakhal News

Dakhal News 2 October 2020


balaghat,Kanha National Park ,opens for tourists, 32 vehicles entered , first day

बालाघाट। कान्हा राष्ट्रीय उद्यान में पर्यटकों के लिए सफारी गुरुवार, 01 अक्टूबर  से प्रारम्भ कर दी गई है। उद्यान के खुलने के बाद पहले ही दिन बड़ी संख्या में पर्यटक यहां पहुंचे और सफारी का लुत्फ उठाया। पहले दिन यहां 32 वाहनों को प्रवेश दिया गया और इस दौरान कोरोना के नियमों का खास ध्यान रखा गया।    इस अवसर पर कलेक्टर दीपक आर्य एवं जिला पंचायत सीईओ आर. उमा महेश्वरी के निर्देशन में टूरिज्म प्रमोशन कॉन्सिल बालाघाट के सहायक नोडल अधिकारी रवि पालेवार, राहुल मेश्राम एवं उनकी टीम द्वारा कान्हा राष्ट्रीय उद्यान के मुक्की गेट पर समस्त गाईड, जिप्सी ड्राइवर एवं पर्यटकों को मास्क, सेनेटाइजर, ग्लब्ज का वितरण कर सुरक्षित पर्यटन करने कराने की शपथ दिलायी गई और कोविड-19 से बचाव के लिए अनिवार्यत: मास्क, सेनेटाइजर आदि का प्रयोग करने का आग्रह किया गया। कान्हा राष्ट्रीय उद्यान में चालू सीजन की सफारी प्रारंभ होने के प्रथम दिन ही मुक्की गेट से लगभग 32 वाहनों ने प्रवेश किया। पर्यटकों में काफी उत्साह देखा गया। इस अवसर पर मुक्की गेट प्रभारी सेंधाराम उयके भी उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 1 October 2020


bhopal,Special train ,will run between Jabalpur-Somnath

भोपाल। परिश्चम मध्य रेलवे द्वारा जबलपुर-सोमनाथ-जबलपुर के बीच शुक्रवार, दो अक्टूबर से स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है। यह ट्रेन दोनों दिशाओं में सप्ताह में पांच दिन इटारसी रूट और दो दिन बीना रूट से होकर चलाई जाएगी।    भोपाल रेल मंडल के जनसम्पर्क अधिकारी आईए सिद्दीकी ने गुरुवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि गाड़ी संख्या 01464-01463 जबलपुर-सोमनाथ-जबलपुर स्पेशल ट्रेन वाया इटारसी और गाड़ी संख्या 01466-01465 जबलपुर-सोमनाथ-जबलपुर स्पेशल वाया बीना होकर चलेगी। गाड़ी संख्या 01464 जबलपुर-सोमनाथ स्पेशल शुक्रवार, तीन अक्टूबर से जबलपुर स्टेशन पूर्वान्ह 11.40 बजे रवाना होकर अगले दिन शाम 5.45 बजे सोमनाथ स्टेशन पहुंचेगी। यह ट्रेन सप्ताह में पांच दिन (मंगलवार, बुधवार, गुरुवार, शनिवार, रविवार) चलेगी। इसी प्रकार वापसी में गाड़ी संख्या 01463 सोमनाथ-जबलपुर स्पेशल एक्सप्रेस (सप्ताह में पांच दिन (मंगलवार, बुधवार, गुरुवार, शुक्रवार, रविवार) आगामी चार अक्टूबर से सोमनाथ स्टेशन ने सुबह 9.30 बजे रवाना होकर अगले दिन दोपहर 2.20 बजे जबलपुर स्टेशन पहुंचेगी।    यह ट्रेन रास्ते में मदनमहल, श्रीधाम, करकबेल, नरसिंहपुर, करेली, गाडरवाड़ा, पिपरिया, सोहागपुर, इटारसी, होशंगाबाद, हबीबगंज, भोपाल, संत हिरदाराम नगर, उज्जैन, नागदा, रतलाम, छायापुरी, अहमदाबाद, सुरेन्द्र नगर, राजकोट और वैरावल स्टेशन पर हाल्ट लेगी। इस ट्रेन में 01 वातानुकूलित प्रथम श्रेणी, 02 वातानुकूलित द्वितीय श्रेणी, 04 वातानुकूलित तृतीय श्रेणी, 09 शयनयान द्वितीय श्रेणी, 04 सामान्य श्रेणी एवं 02 जनरेटर कार सहित कुल 22 कोच रहेंगे।    इसी प्रकार गाड़ी संख्या 01466 जबलपुर-सोमनाथ स्पेशल (सप्ताह में दो दिन सोमवार, शुक्रवार) शुक्रवार दो अक्टूबर से जबलपुर स्टेशन से सुबह 10 बजे रवाना होकर अगले दिन शाम 5.45 बजे सोमनाथ स्टेशन पहुंचेगी। वहीं, वापसी में गाड़ी संख्या 01465 सोमनाथ-जबलपुर स्पेशल (सप्ताह में दो दिन सोमवार, शनिवार) आगामी पांच अक्टूबर से सोमनाथ स्टेशन से सुबह 9.30 बजे रवाना होकर अगले दिन शाम 5.20 बजे जबलपुर स्टेशन पहुंचेगी। यह ट्रेन रास्ते में कटनी मुड़वारा, दमोह, पथरिया, सागर, खुरई, बीना, मंडी बामोरा, गंजबासोदा, विदिशा, भोपाल, संत हिरदाराम नगर, उज्जैन, नागदा, रतलाम, छायापुरी, अहमदाबाद, सुरेन्द्र नगर, राजकोट और वैरावल स्टेशन पर हाल्ट लेगी। इस ट्रेन में 01 वातानुकूलित प्रथम श्रेणी, 02 वातानुकूलित द्वितीय श्रेणी, 04 वातानुकूलित तृतीय श्रेणी, 09 शयनयान द्वितीय श्रेणी, 04 सामान्य श्रेणी एवं 02 जनरेटर कार सहित कुल 22 कोच रहेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 1 October 2020


bhopal,272 new ,corona patients found, public relations operators ,also infected

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना का कहर जारी है। शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। अब यहां कोरोना के 272 नये मामले सामने आए हैं, जबकि दो लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढक़र 17,945 और मृतकों की संख्या 394 हो गई है। इन नये मरीजों में जनसम्पर्क संचालक आशुतोष प्रताप सिंह भी शामिल हैं। उनकी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है।   भोपाल सीएमएचओ कार्यालय से मिली जानकारी जानकारी के मुताबिक, राजधानी में गुरुवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में 272 नए मरीजों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढक़र 17,945 हो गई है। वहीं, राजधानी में कोरोना से दो लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 394 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि भोपाल में संक्रमित मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं। यहां अब तक 15,143 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 2400 के करीब है, जिनका उपचार जारी है।   गुरुवार को जिन लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, उनमें भोपाल स्थित जनसम्पर्क संचालनालय के संचालक आशुतोष प्रताप सिंह के अलावा, सेंट्रल जेल से एक कैदी, सीएसपी ऑफिस टीटी नगर से एक व्यक्ति, एम्स से एक व्यक्ति, जेपी अस्पताल से एक व्यक्ति, गांधी मेडिकल कॉलेज में तीन, सीआरपीएफ अस्पताल से 6 लोग, आरकेडीएफ मेडिकल कॉलेज में दो लोग, अरेरा कॉलोनी में एक ही परिवार के 5 लोग, पंजाबी बाग एक ही परिवार के तीन लोग, आराधना नगर से एक ही परिवार के तीन लोग, होटल आनंद पैलेस से 2 लोग, जहांगीराबाद से तीन लोग, श्वेता कॉम्प्लेक्स त्रिलंगा से 3 लोग, टैगोर नगर खजूरी से 5 लोग, इब्राहिमगंज से एक व्यक्ति शामिल है।

Dakhal News

Dakhal News 1 October 2020


ratlam, Special trains , run from Bandra Terminus, Ajmer-Udaipur

रतलाम। पश्चिम रेलवे द्वारा यात्रियों की सुविधा के लिए बांद्रा टर्मिनस अजमेर और बांद्रा टर्मिनस उदयपुर के बीच दो ओर विशेष ट्रेनें चलाने का निर्णय लिया है, जबकि दो अन्य ट्रेनें उदयपुर-अजमेर और उदयपुर-हरिद्वारा स्पेशल ट्रेन पश्चिम रेलवे के चित्तौड़ स्टेशन के रास्ते चलेगी।    जानकारी के अनुसार ट्रेन नंबर 02995/ 02926 बांद्रा टर्मिनस अजमेर स्पेशल ट्रेन 2 अक्टूंबर से बांद्रा से और ट्रेन संख्या 02952 बांद्रा-उदयपुर स्पेशल टे्रन 1 अक्टूबर से बांद्रा से चलेगी। 02991/92 उदयपुर-जयपुर और ट्रेन नंबर 09609/10 उदयपुर-हरिद्वार ट्रेन 1 अक्टूबर से अगली सूचना तक चलेगी।    बांद्रा अजमेर त्रिसाप्ताहिक विशेष ट्रेन 02995 बांद्रा से बुधवार-शुक्रवार-रविवार को 16.15 बजे रवाना होकर अगले दिन 9.50 बजे अजमेर पहुंचेगी। इसी तरह 02996 अजमेर बांद्रा साप्ताहिक स्पेशल टे्रेन 1 अक्टूंबर से प्रत्येक मंगलवार-गुरूवार-शनिवार को 20.30 बजे निकलकर अगले दिन 14.20 बजे बांद्रा पहुंचेगी। यह ट्रेन बोरीवली, वापी, बलसाढ, सूरत, बडोदा, रतलाम, मंदसौर, नीमच,चित्तौडगढ़, भीलवाड़ा, विजय नगर, नसीराबाद स्टेशन रुकेगी।    ट्रेन नं. 02901/02902 बांद्रा उदयपुर त्रिसाप्ताहिक स्पेशल ट्रेन 1 अक्टूुबर से मंगलवार, गुरूवार-शनिवार को बांद्रा से 23.25 बजे निकलकर अगले 16.10 बजे उदयपुर पहुंचेगी। 02902 उदयपुर-बांद्रा टर्मिनल त्रिसाप्ताहिक विशेष ट्रेन 2 अक्टंूबर से प्रत्येक बुधवार-शुक्रवार और रविवार को उदयपुर से 21.10 बजे निकलकर अगले दिन 23.30 बजे बांद्रा पहुंचेगी। यह ट्रेन बोरीवली,सूरत-बड़ूच, बड़ोदरा, दाहोद,रतलाम, मंदसौर,नीमच, चित्तौडग़ढ़, फतेहपुर, मावली जं. और राणा प्रतापनगर पर दोनों दिशाओं में रूकेगी। इस ट्रेन में एसी 2-टियर,3-टियर, स्लीपर क्लास व सेकेंड क्लास दोनों शामिल है।

Dakhal News

Dakhal News 30 September 2020


bhopal, 308 new corona ,patients found , four people also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना का कहर जारी है। शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। अब यहां कोरोना के 308 नये मामले सामने आए हैं, जबकि चार लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढक़र 17,716 और मृतकों की संख्या 392 हो गई है। भोपाल में लगातार दूसरे दिन कोरोना के 300 से अधिक नये मामले सामने आए हैं। इससे एक दिन पहले यहां एक दिन में सर्वाधिक 329 नये संक्रमित मिले थे।   भोपाल सीएमएचओ कार्यालय से मिली जानकारी जानकारी के मुताबिक, राजधानी में बुधवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में 308 नए मरीजों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढक़र 17,716 हो गई है। वहीं, राजधानी में कोरोना से चार लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 392 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि भोपाल में संक्रमित मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं। यहां अब तक 14,913 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 2100 के करीब है, जिनका उपचार जारी है।   बुधवार को जिन लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, उनमें राजभवन से संबंधित 4 लोग, चूना भट्टी थाने से एक जवान, एमपीनगर थाने से दो जवान, पिपलानी थाने से एक जवान, हनुमानगंज थाने से दो लोग, सीआरपीएफ के 5 जवान, एम्स से 4 लोग, गांधी मेडिकल कॉलेज से एक व्यक्ति, जेपी अस्पताल से एक व्यक्ति, लालवानी प्रेस बोर्ड से 4 लोग, परिकर सोसायटी से 4 लोग शामिल हैं।

Dakhal News

Dakhal News 30 September 2020


bhopal,Last day ,monsoon season, MP, rain alert

भोपाल। मध्य प्रदेश में मौसम का रंग हर पल बदला हुआ नजर आ रहा है। हल्की ठंड के साथ दिन में उमस बनी हुई है। वहीं रात के समय ठंड का एहसास हो रहा है। प्रदेश से अब तक मानसून की विदाई नहीं हुई है। भले ही मानसून की विदाई अक्टूबर के पहले हफ्ते में तय मानी जा रही है, लेकिन 30 सितम्बर को मानसूनी सीजन का आखिरी दिन है। मानसूनी सीजन के आखिरी दिन भी प्रदेश के कुछ इलाकों में मौसम विभाग ने हल्की बारिश होने की संभावना जताई है। इसको लेकर कुछ इलाकों में अलर्ट भी जारी किया गया है।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक ममता यादव ने बुधवार को जानकारी देते हुए बताया कि मध्यप्रदेश से मानसून की विदाई 22 सितम्बर तय मानी जा रही थी। 22 सितंबर के बाद भी मानसून अब तक मध्य प्रदेश से विदा नहीं हुआ है। अब अक्टूबर के पहले हफ्ते यानी 5 अक्टूबर तक प्रदेश भर से मानसून की विदाई मानी जा रही है तो वहीं जाते-जाते मॉनसून प्रदेश भर के कुछ जिलों को तरबतर कर रहा है। मौसम विभाग ने बुधवार को भी होशंगाबाद और जबलपुर संभागों के जिलों में हल्की बूंदाबांदी होने की संभावना जताई है। वहीं जबलपुर इंदौर होशंगाबाद भोपाल संभाग के जिलों में और दमोह सागर आगर देवास शाजापुर रतलाम उज्जैन जिला में हल्की बूंदाबांदी हो सकती है।   हल्की ठंडक होने से तापमान में गिरावटप्रदेश भर में बीते एक हफ्ते पहले तक उमस बनी होने से तापमान में लगातार इजाफा हो रहा था। वहीं अब मौसम में हल्की ठंडक घुलने के साथ ही तापमान में गिरावट हो रही है। तो वहीं लोगों को गर्मी से हल्की राहत भी मिल रही है। मौसम विभाग का कहना है कि गुजरात में बने चक्रवात के कारण हल्के हल्के बादल छाए रहेंगे। यही वजह है कि दिन के तापमान में भी गिरावट दर्ज हो रही है तो वहीं रात को लोगों को हल्की हल्की ठंड का एहसास हो रहा है।   तय समय से पहले मानसून ने दी थी दस्तकमध्य प्रदेश में इस साल मानसून ने तय समय से एक दिन पहले दस्तक दी थी, तो वहीं राजधानी भोपाल में तय दिन से एक दिन पहले यानी 16 जून को मानसून पहुंचा था। मानसून आने के 107 दिन में 53.82 इंच बारिश हुई है, जो कि सामान्य से 10 इंच से भी ज्यादा है। जुलाई में सामान्य से कम बारिश रिकॉर्ड हुई थी। वहीं जून अगस्त और सितंबर में अच्छी बारिश होने से प्रदेश में बारिश का कोटा पूरा हो गया है।

Dakhal News

Dakhal News 30 September 2020


indore, Corona

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद यहां कोरोना संक्रमित मरीजों के साथ-साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। अब यहां कोरोना के 449 नये मामले सामने आए हैं, जबकि सात लोगों की मौत हुई है। इसके बाद इंदौर में संक्रमित मरीजों की संख्या 23,524 और मृतकों की संख्या भी 558 हो गई है। इंदौर में लगातार दसवें दिन कोरोना के 400 से अधिक नये संक्रमित मिले हैं। यहां दो दिन पहले ही एक दिन में सर्वाधिक 478 नये संक्रमित मिले थे।   इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने मंगलवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा सोमवार देर रात 1951 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 449 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 23,524 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से सात लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 558 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 18,510 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 4456 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 29 September 2020


bhopal,Four IAS officers, transferred in MP

भोपाल। मध्यप्रदेश में विधानसभा की 28 रिक्त सीटों पर होने वाले उपचुनावों की तैयारियों की बीच अधिकारियों के तबादलों का दौर निरंतर जारी है। इसी क्रम में अब भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के चार अधिकारियों का तबादला किया गया है। इस संबंध में सोमवार देर रात मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैस द्वारा आदेश जारी किये गये।   जारी आदेश के मुताबिक, मंत्रालय भोपाल में खनिज साधन विभाग के उप सचिव नरेन्द्र कुमार सूर्यवंशी को उज्जैन जिले में अपर कलेक्टर बनाया गया है, जबकि विदिशा जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी मयंक अग्रवाल को इंदौर जिले में अपर कलेक्टर नियुक्त किया गया है। इसी प्रकार नीमच जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी भव्या मित्तल को मंत्रालय भोपाल में उप सचिव और राजगढ़ जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आशीष सांगवान को नीमच जिला पंचायत में मुख्य कार्यपालन अधिकारी पदस्थ किया गया है।

Dakhal News

Dakhal News 29 September 2020


Satna, Order, judicial inquiry, suspicious death, police bullet

सतना। जिले के सिंहपुर थाने के लॉकअप में चोरी के संदेह में पूछताछ के लिए हिरासत में लिए गए एक ग्रामीण की बीती रात थानेदार की सर्विस रिवॉल्वर से गोली चलने से मौत हो गई। सोमवार को ग्रामीणों ने थाने का घेराव कर दिया और जमकर हंगामा किया। मामले में थानेदार सहित दो पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है, जबकि मामले की न्यायिक जांच के आदेश दिये गये हैं।    जानकारी के मुताबिक, सिंहपुर थाना पुलिस चोरी के मामले में संदेही नारायणपुर गांव में बढ़ईगीरी और राजगीर मिस्त्री का काम करने वाले राजपति कुशवाहा (45) को पूछताछ के लिए रविवार को हिरासत में लेकर थाने लेकर आई थी। रात में सिंहपुर थाने में लॉकअप में सिंहपुर थाना प्रभारी विक्रम पाठक की सर्विस रिवॉल्वर से गोली चल गई, जिससे राजपति कुशवाहा की मौत हो गई। थानेदार की सर्विस रिवॉल्वर से चली गोली से हुई मौत के बाद सोमवार सुबह मृतक के परिजन और बड़ी संख्या में ग्रामीण थाने पहुंच गए और धरने पर बैठ गए। परिजनों का आरोप है कि थानेदार ने शराब के नशे में गोली मार कर राजपति कुशवाहा की हत्या कर दी। हंगामा बढ़ते देख थाने में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया। वहीं, पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल ने आरोपों के घेरे में आये सब इंस्पेक्टर विक्रम पाठक और आरक्षक आशीष को निलंबित कर दिया।    इधर, कलेक्टर अजय कटेसरिया ने मामले को संज्ञान में लेते हुए न्यायिक जांच के आदेश जारी कर दिए गए है। मामले में थाना प्रभारी की सर्विस रिवाल्वर जब्त कर ली गई है। ड्यूटी पर तैनात सभी पुलिस कर्मियों को हटा दिया गया, नए थाना प्रभारी की हुई पदस्थापना की गई है। घटना स्थल से साक्ष्य एकत्रित किए गए। 

Dakhal News

Dakhal News 28 September 2020


bhopal, 199 new, corona patients found ,five also died

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना का कहर जारी है। शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। सोमवार को यहां कोरोना के 199 नये मामले सामने आए हैं, जबकि पांच लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 17,181 और मृतकों की संख्या 384 हो गई है।   भोपाल सीएमएचओ कार्यालय से मिली जानकारी जानकारी के मुताबिक, राजधानी में सोमवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में 199 नए मरीजों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढक़र 17,181 हो गई है। वहीं, राजधानी में कोरोना से पांच लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 384 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि भोपाल में संक्रमित मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं। यहां अब तक 14,448 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 2100 के करीब है, जिनका उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 28 September 2020


Bhopal, Bike rider ,dies bike driver, second injured

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के शाहपुरा थाना क्षेत्र अंतर्ग दानापानी रेस्टोरेंट के पास रविवार सुबह एक तेज रफ्तार ट्रक ने बाइक सवार दो युवकों को जोरदार टक्कर मार दी। इस हादसे में एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दूसरा गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायल को अस्पताल पहुंचाया। वहीं, शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर पुलिस ने मामले को जांच में लिया है।    शाहपुरा थाना पुलिस के अनुसार, हबीबगंज क्षेत्र के मीरा नगर निवासी 19 वर्षीय राहुल पुत्र किशोर नागले निजी काम करता था। रविवार सुबह करीब 10 बजे वह बाइक पर अपने दोस्त मनीष उईके के साथ शाहपुरा से बागसेवनिया जा रहा था। दानापानी रेस्टोरेंट के पास ओवरब्रिज के करीब मनीष ने जल्दबाजी में सामने जा रहे ट्रक को ओवरटेक करने का प्रयास किया। इसी दौरान बाइक अनियंत्रित हो गई और दोनों युवक बाइक समेत ट्रक के नीचे आ गए। हादसे के वक्त राहुल की ट्रक के पहिये की चपेट में आने से मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसका दोस्त मनीष उछलकर दूर जा गिरा, जिससे उसकी जान बच गई, लेकिन वह गंभीर रूप से घायल हो गया। हादसे के बाद ट्रक चालक मौके से फरार हो गया। मौके पर मौजूद लोगों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए हमीदिया अस्पताल पहुंचाया। वहीं, ट्रक को जब्त कर पुलिस ने चालक के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है। बताया गया है कि ट्रक चालक ने बागसेवनिया थाने पहुंचकर सरेंडर कर दिया है।

Dakhal News

Dakhal News 27 September 2020


indore, Corona records, 478 new patients, found ,seven people died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद यहां कोरोना संक्रमित मरीजों के साथ-साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। अब यहां कोरोना के रिकॉर्ड 478 नये मामले सामने आए हैं, जबकि सात लोगों की मौत हुई है। इसके बाद इंदौर में संक्रमित मरीजों की संख्या 22,607 और मृतकों की संख्या 545 हो गई है। इंदौर में लगातार आठवें दिन कोरोना के 400 से अधिक नये संक्रमित मिले हैं। यहां एक दिन में 478 नये संक्रमित पहली बार मिले हैं। इससे पहले यह आंकड़ा 451 था।   इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने रविवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा शनिवार देर रात 2176 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 478 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 22,607 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से सात लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 545 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 17,931 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 4139 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 27 September 2020


raisen,Farmers jammed ,highway , survey bad crop,due to rain

रायसेन। रायसेन जिले में हुई भारी बारिश और बाढ़ की तबाही से हजारो एकड़ किसानों की फसल बर्बाद होने के बाद भी समय रहते सर्वे न होने से नाराज़ शनिवार को किसानों करीब दो घंटे तक चक्काजाम किया । चक्काजाम में उदयपुरा विधायक देवेंद्र पटेल एवं कांग्रेस जिला अध्यक्ष देवेंद्र पटेल के नेतृत्व में दो हजार से अधिक किसानों ने ए एस डी एम कार्यालय के सामने भोपाल जबलपुर एन एच-12 पर चक्काजाम क फसलों के सर्वे एवं उचित मुआवजे की मांग की । जिले के उदयपुरा, बरेली, बाड़ी तहसील में भारी बारिश के चलते हजारो एकड़ फसल बर्बाद हुई । जिसका सही सर्वे नही किया गया है। किसानों ने बर्बाद फसल को लेकर प्रदर्शन किया वहीं नेशनलहाईवे 12 पर ट्रेक्टर ट्राली लगाकर चक्कजाम कर प्रदर्शन किया ।    किसान सड़क पर बैठ गए और कलेक्टर को बुलाने की मांग कर रहे थे किसानों की मांग को लेकर किसानों ने उदयपुरा विधायक देवेंद्र पटेल ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया। विधायक देवेंद्र पटेल भाजपा सरकार पर खूब बरसे ओर प्रशासन को को चेताया किसानों के प्रति दोयम दर्जे का व्यवहार किया तो ठीक नही होगा हम ईट से ईंट बजा देगे वही कमलनाथ सरकार को गिराने बालो को कहा बिकाऊ ओर गद्दार क्षेत्र में हुई भारी बारिश से वरवाद हुई फसलों का सही आकलन नही हुआ तो आंदोलन किया जाएगा। हम किसानों के साथ है और किसी तरह का अन्याय बर्दास्त नहीं करेगे ।

Dakhal News

Dakhal News 26 September 2020


ujjain,Five workers killed, seven injured , jeep and trolley collision

उज्जैन। कटनी के ग्राम खिरानी बरही और खिरहनी के 12 मजदूर जीप (तूफान गाड़ी) में बैठकर नीमच जाने के लिए निकले थे। उज्जैन जिले के जिले के नरवर थाना क्षेत्र में शनिवार को तडक़े करीब 3.30 बजे देवास मार्ग पर हवाईपट्टी के समीप उनकी जीप सीमेंट से भरे ट्राले से टकरा गई। इस हादसे में जीप में सवार पांच मजदूरों की मौत हो गई और सात गंभीर रूप से घायल हो गए। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को अस्पताल पहुंचाया। वहीं, मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू की।   नरवर थाना के एएसआई परमानंद सिंह ने बताया कि देवास मार्ग पर सुबह करीब साढ़े तीन बजे हादसा हुआ। जीप में सवार लोग लॉकडाउन के बाद मजदूरी के लिए नीमच जा रहे थे। हादसे में पांच लोगों की मौत हुई है, जबकि सात लोग घायल हुए हैं, जिन्हें जिला अस्पताल में भर्ती किया गया है। मृतकों की पहचान तूफान जीप चालक अमर निवासी पिपरिया बंजारी कटनी, रामू पुत्र मोहन पटवा, बृजेश, सोमदेव पुत्र राजा, रामकृष्ण पुत्र विष्णुदयाल, दुर्गाप्रसाद पुत्र विनोद, राकेश पुत्र विजय के रूप में हैं। सभी मजदूर कटनी जिले के ग्राम खिरानी बरही और खिरहनी के रहने वाले थे। हादसे के बाद ट्राले का ड्राइवर और क्लीनर हादसे के बाद से फरार हो गए। पुलिस ने मामले की जांच कर रही है।

Dakhal News

Dakhal News 26 September 2020


indore, Corona

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद यहां कोरोना संक्रमित मरीजों के साथ-साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। अब यहां कोरोना के 445 नये मामले सामने आए हैं, जबकि सात लोगों की मौत हुई है। इसके बाद इंदौर में संक्रमित मरीजों की संख्या 22,139 और मृतकों की संख्या 538 हो गई है। इंदौर में लगातार सातवें दिन कोरोना के 400 से अधिक नये संक्रमित मिले हैं। यहां एक दिन में सर्वाधिक 451 का रिकॉर्ड है।   इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने शनिवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा शुक्रवार देर रात 2695 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 445 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 22,129 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से सात लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 538 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 17,626 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 3966 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों और घरेलू एकांतवास में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 26 September 2020


sehdol. Bandhavgarh National Park ,will be open , tourists, October 1

शहडोल। शहडोल कमिश्नर नरेश पाल की अध्यक्षता में हुई बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व स्थानीय सलाहकार समिति की बैठक में आगामी एक अक्टूबर से बांधवगढ़ नेशनल पार्क क्षेत्र में नाइट सफारी, टाइगर सफारी प्रारंभ करने तथा स्थानीय ग्रामीणों को वनोपज और पर्यटन पर आधारित रोजगार मुहैया कराने के प्रस्तावों का अनुमोदन सर्वसम्मति से किया गया। बैठक में क्षेत्र संचालक विंसेंट रहीम, वन सरंक्षक एवं पदेन वनमण्डलाधिकारी आरएस सिकरवार, उप संचालक सिद्वार्थ गुप्ता एवं अन्य सदस्य उपस्थित रहे।   बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के क्षेत्र संचालक विंसेंट रहीम ने शुक्रवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि एक अक्टूबर से बाधंवगढ टाइगर रिजर्व नेशनल पार्क पर्यटकों के लिये खोला जाएगा। कमिश्नर ने निर्देश दिये हैं कि टाइगर रिजर्व में पर्यटकों को कोरोना से बचावं के उपायों का पालन सुनिश्चित किया जाएं तथा शासन द्वारा जारी निर्देशों का सख्ती से पालन सुनिश्चित किया जाए। टाइगर रिजर्व क्षेत्र मे किसी भी पर्यटक को बैगर मास्क एवं सेनेटाईजिंग के बैगर प्रवेश नहीं दिया जाए।    उन्होंने बताया कि बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व क्षेत्र में 15 से 30 जून तक पर्यटन वापस प्रारंभ किया गया था, जिसमें स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से पर्यटकों की स्क्रीनिंग की गई। उन्होंने बताया कि एक अक्टूबर से पर्यटन प्रारंभ होने पर बांधवगढ़ टाईगर रिजर्व क्षेत्र में सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन किया जाएगा। पर्यटकों को मास्क लगाने के लिये बाध्य किया जाएगा, सोशल डिस्टेसिंग का पालन कराया जाएगा तथा कोरोना से बचाव हेतु भारत सरकार द्वारा दिये गए दिशा निर्देशों का सख्ती से पालन कराया जाएगा।    क्षेत्र संचालक ने बताया कि बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व क्षेत्र में टाइगर सफारी पनपथा जोन में एमपी थियेटर एवं नाइट सफारी प्रारंभ किये जा रहे हैं, वहीं जोहिला क्षेत्र में वाटर फॉल का विकास करने तथा आदिवासी कल्चर पर म्यूजियम तैयार करने के प्रयास किये जा रहे हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 25 September 2020


bhopal,There will be, decrease , rain activities , MP, possibility , slight rise in temperature

भोपाल। पिछले कई दिनों से मध्य प्रदेश के अधिकांश भागों में मध्यम से भारी वर्षा की गतिविधियां जारी हैं। हालांकि पिछले 24 घंटों के दौरान वर्षा की गतिविधियों में कमी आई है। अभी तक पश्चिमी मध्य प्रदेश में सामान्य से 15 प्रतिशत अधिक वर्षा हुई है तथा पूर्वी मध्य प्रदेश को भी सामान्य वर्षा प्राप्त हुई है वहां केवल 1 प्रतिशत की कमी है।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक उदय सरवटे ने जानकारी देते हुए बताया कि अब पूरे सप्ताह मध्य प्रदेश को वर्षा से राहत रहेगी तथा मौसम लगभग शुष्क हो जाएगा। इस समय मध्य प्रदेश में अधिकांश फसलें कटाई के लिए तैयार हैं। अब भारी वर्षा फसलों को नुकसान पहुंचा सकती है। परंतु राहत की बात यह है कि अब मध्य प्रदेश में वर्षा में भारी कमी आने के साथ-साथ तापमान में हल्की वृद्धि हो सकती है। दक्षिण पश्चिमी जिलों में हल्की वर्षा जारी रह सकती है लेकिन भारी से अति भारी वर्षा की संभावना बहुत कम है। 27 सितंबर से 30 सितंबर के बीच धार, बड़वानी, खरगोन, खंडवा, बुरहानपुर, देवास तथा इंदौर आदि जिलों में छिटपुट वर्षा की गतिविधियां जारी रह सकती हैं। बाकी अधिकांश जिले लगभग एक ही बने रहने की संभावना है।

Dakhal News

Dakhal News 25 September 2020


bhopal,297 new infected,corona found ,three also died

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना का कहर जारी है। शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। अब यहां कोरोना के 297 नये संक्रमित मिले हैं, जबकि तीन लोगों की मौत भी हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 16,484 और मृतकों की संख्या 371 हो गई है।   भोपाल सीएमएचओ कार्यालय से मिली जानकारी जानकारी के मुताबिक, राजधानी में शुक्रवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में 297 नए मरीजों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 16,484 हो गई है। वहीं, राजधानी में कोरोना से तीन लोगों की मौत की पुष्टि भी हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 371 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि भोपाल में संक्रमित मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं। यहां अब तक 13,717 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं, लेकिन बड़ी संख्या में नये संक्रमित मिलने से यहां सक्रिय मरीजों की संख्या बढक़र दो हजार के करीब पहुंच गई है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।   शुक्रवार को जिन लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, उनमें भोपाल मेमेरियल अस्पताल से एक व्यक्ति, एम्स से एक व्यक्ति, गांधी मेडिकल कॉलेज से चार लोग, जवाहरलाल नेहरू केंसर अस्पताल से दो लोग, चार इमली से दो लोग, इब्राहिमगंज से एक व्यक्ति, जहांगीराबाद से एक व्यक्ति, बैरागढ़ थाने से एक जवान, ईएमई सेंटर से 8 लोग, 25वीं बटालियन से 7 लोग, एसबीआई से तीन लोग शामिल हैं।

Dakhal News

Dakhal News 25 September 2020


umaria, Elephant Festival ,booms , Bandhavgarh National Park

उमरिया। विश्व प्रसिद्ध बांधवगढ़ नेशनल पार्क में इन दिनों हाथी महोत्सव का आयोजन धूमधाम से किया गया है। हाथी महोत्सव को लेकर ताला में खासा उल्लास और उत्सव का वातावरण है। हाथियों को देखने और उन्हें फल खिलानें के लिए दूर दूर से लोग पहुंच रहे है। हाथी महोत्सव में 15 हाथी शामिल किए गए है, जिसमें 10 नर एवं पांच मादा हाथी शामिल है।   पुलिस अधीक्षक विकास कुमार शाहवाल एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अंशुल गुप्ता ने भी बुधवार को हाथी महोत्सव में भाग लिया। इस अवसर पर नेशनल पार्क के उप संचालक सिद्धार्थ गुप्ता, एसडीओ अनिल शुक्ला तथा अन्य अधिकारी, कर्मचारी उपस्थित रहे।   बता दें कि इस महोत्सव के दौरान प्रतिदिन हाथियों की जमकर आवभगत की जाती है। सुबह सभी हाथियों को नहलाकर विशेष श्रृगांर किया जाता है और उन्हें मनपसंद घास, केले, गुड़ व पकवान खिलाया जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 23 September 2020


indore, Corona wreaks havoc,records found ,451 new cases, seven died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर जारी है। यहां हालात काबू से बाहर हो गए हैं। शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद यहां कोरोना संक्रमित मरीजों के साथ-साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। अब यहां कोरोना के एक दिन में सर्वाधिक 451 नये मामले सामने आए हैं, जबकि सात लोगों की मौत भी हुई है। इसके बाद इंदौर में संक्रमित मरीजों की संख्या 20,834 और मृतकों की संख्या 516 हो गई है। इंदौर में लगातार चौथे दिन कोरोना के 400 से अधिक नये संक्रमित मिले हैं। इससे एक दिन पहले यहां सर्वाधिक 446 नये मरीज मिले थे।   इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने बुधवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा मंगलवार देर रात 3515 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 451 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 20,834 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से सात लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 516 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 16, 364 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 3800 के पार पहुंच गई है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 23 September 2020


dhar, sudden fire,bus going from, Indore to Mumbai, no casualties

धार। जिले का धामनोद थाना क्षेत्र में इंदौर से मुम्बई जा रही एक निजी ट्रैवल्स की स्लीपर कोच बस में बीती देर रात जोरदार धमाके के साथ अचानक आग लग गई। धमाके की आवाज सुनकर बस के सभी यात्री अपने सामान के साथ नीचे उतर गए, लेकिन तब तक बस धू-धूकर जलने लगी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और धामनोद से दमकल की गाडिय़ां बुलाकर आग पर काबू पाया। इस हादसे में कोई जनहानि नहीं हुई है, लेकिन बस पूरी तरह जलकर खाक हो गई। पुलिस ने मामले को जांच में लिया है।   जानकारी के अनुसार, निजी ट्रेवल्स की बस क्रमांक एमपी-04, पीए 3778 रविवार रात इंदौर से यात्रियों को लेकर मुंबई के लिए रवाना हुई थी। कोरोना के चलते बस में कम यात्री सवार थे और रात होने के कारण वे बस में आराम से सो रहे थे। रात करीब साढ़े 11 बजे के करीब बस धामनोद नगर के बाहर दूधी तिराहे स्थित मधुबन होटल के पास पहुंची थी, तभी स्पीड ब्रेकर पार करते समय अचानक जोरदार धमाके की आवाज आई और बस में आग लग गई। धमाके की आवाज सुनकर बस में सो रहे यात्री जाग गए और अपने सामान के साथ नीचे उतर गए, लेकिन तब तक आग पूरी बस में फैल गई और बस धू-धू कर जलने लगी। यात्रियों ने तत्काल पुलिस और फायर ब्रिगेड को सूचना दी। सूचना मिलते ही पुलिस और दमकल की गाडिय़ां मौके पर पहुंची और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया, लेकिन तब तक बस का अगला हिस्सा पूरी तरह जल चुका था। धामनोद पुलिस के अनुसार, इस हादसे में कोई जनहानि नहीं हुई है। यात्रियों को दूसरी बस से अपने गंतव्य की ओर रवाना कर दिया है और फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Dakhal News

Dakhal News 21 September 2020


bhopal, Rain likely ,10 districts ,including Bhopal, department issued alert

भोपाल। आज से मध्यप्रदेश में एक बार फिर झमाझम बारिश का दौर शुरु होने वाला है। बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है, इस वजह से 21-22 सितंबर को बारिश का एक और दौर फिर शुरू होने के आसार हैं। हालांकि वातावरण में नमी के चलते दिन में उमस और गर्मी हो रही है, लेकिन शाम होते होते कई दिनों से कई जिलों में गरज चमक के साथ बौछारों का सिलसिला जारी है।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला के मुताबिक मध्य प्रदेश के दक्षिण पश्चिमी भागों में बारिश की गतिविधियां 24 घंटों के बाद कम होने लगेंगी और अगले तीन-चार दिनों तक जहां पूर्वी तथा मध्य भागों में कई जगहों पर अच्छी वर्षा होती रहेगी। वहीं पश्चिमी क्षेत्रों में गुना से लेकर इंदौर, उज्जैन, रतलाम, देवास, धार, मंदसौर तक मौसम मुख्यत: शुष्क रहने की संभावना है। बारिश के आगामी स्पैल के दौरान सबसे ज़्यादा प्रभावित होने वाले जिले होंगे पूर्वी मध्य प्रदेश के जबलपुर, मंडला, बालाघाट, कटनी, सागर, सतना, पन्ना, छतरपुर, खजुराहो और भोपाल।   क्या कहता है मौसम विभागमौसम विभाग की माने तो बंगाल की खाड़ी में सिस्टम बना है। हिमालय की तराई में पहुंच गई मानसून द्रोणिका के फिर वापस लौटने की संभावना है। इस वजह से 21-22 सितंबर को बारिश का एक और दौर फिर शुरू होने के आसार हैं। बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बनने से दो दिन बाद बरसात की गतिविधियों में तेजी आएगी। मौसम विभाग की माने तो अगले 24 घंटों के दौरान मध्य प्रदेश के दक्षिण पश्चिमी जिलों में वर्षा होने की संभावना है। उसके बाद बारिश की गतिविधियां बढऩे के आसार हैं क्योंकि बंगाल की खाड़ी पर एक डिप्रेशन बनने वाला है। इसके प्रभाव से धीरे-धीरे बारिश की गतिविधियों में वृद्धि देखने को मिलेगी। मध्य प्रदेश के पूर्वी तथा मध्य क्षेत्रों में कम से कम 25 सितंबर तक कई जगहों पर मध्यम से भारी मॉनसूनी वर्षा होती रहेगी।   इन संभागों में गरज चमक के साथ बौछारेरीवा, जबलपुर, शहडोल, भोपाल, उज्जैन, इंदौर, होशंगबाद,सागर, ग्वालियर और चंबल संभागों के जिलों में कही कही।   इन जिलों में गरज चमक के साथ बिजली गिरने की संभावना सागर, रीवा, जबलपुर, सतना, उमरिया जिलों में।

Dakhal News

Dakhal News 21 September 2020


Dindori, illegal liquor,being smuggled ,Madhya Pradesh government vehicle

डिंडोरी। कोतवाली पुलिस ने रविवार देर रात अवैध शराब ले जा रहे एक बोलेरो वाहन को पकड़ा है। अनूपपुर जिले के राजेन्द्रग्राम से आ रहे अवैध शराब से भरे इस बोलेरो वाहन पर मध्यप्रदेश शासन लिखा हुआ था।    डिंडोरी कोतवाली पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि अनूपपुर जिले के राजेंद्रग्राम से अवैध शराब की खेप आने वाली है। सूचना के आधार पर पुलिस ने रविवार देर रात राजेन्द्रग्राम से आ रहे अवैध शराब से भरे बोलेरो वाहन को पकड़ा। पुलिस ने बोलेरो के 28 वर्षीय ड्राइवर तुलसी को गिरफ्तार कर लिया है। बोलेरो वाहन का नंबर एमपी 52 टीए 0579 है, जिस पर मध्यप्रदेश शासन लिखा हुआ है। इस वाहन का रजिस्ट्रेशन डिंडौरी वार्ड-6 निवासी सुशीला पाटिल के नाम पर है।    पुलिस की पूछताछ में ड्राइवर ने बताया कि जब्त वाहन वन विभाग डीएफओ सामान्य वन मंडल अधिकारी डिंडौरी ने सरकारी काम के लिए अधिकृत किया है। पुलिस बोलेरो के ड्राइवर से पूछताछ कर रही है, ताकि यह पता लगाया जा सके कि शराब कहां से रखी और कहां पहुंचाने के लिए भेजी गई थी। कोतवाली प्रभारी चंद्रकिशोर सिरामे ने बताया कि वाहन के ड्राइवर का नाम तुलसी है, जो देवरा गांव का निवासी है।

Dakhal News

Dakhal News 21 September 2020


raisen,The center , faith of Buddhist,e Bodhi tree , Salamatpur.

रायसेन। रायसेन जिले के सांची-सलामतपुर के पास 18 फिट उंची पहाड़ी पर स्थित बोधिवृक्ष दुनियां भर के बौद्ध धर्मावलम्बियों के लिये आस्था केन्द्र है। इस बोधिवृक्ष को श्रीलंका के राष्ट्रपति महेन्द्र पक्षे ने ठीक आठ साल पहले आज ही के दिन 21 सितम्बर 2012 को बौद्ध विश्वविद्यालय के शिलान्यास के अवसर पर लगाया था। इस बोधिवृक्ष की सुरक्षा में चौबीस घंटे जवान तैनात रहते हैं।  यह बोधिवृक्ष बिहार के गया जिले में बोधगया स्थित उसी बोधिवृक्ष का हिस्सा है, जिसके नीचे सिद्धार्थ को ज्ञान प्राप्त हुआ था और वे भगवान गौतम बुद्ध कहलाये। यह बोधि वृक्ष पीपल का पेड़ है। इस पेड़ के नीचे बुद्ध को 528 ईसा पूर्व ज्ञान अर्थात बोधि की प्राप्ति हुई, इसलिये यह बोधिवृक्ष के नाम से जाना जाने लगा।कलिंग युद्ध के बाद सम्राट अशोक का हृद्य परिवर्तन हुआ। उन्होंने हिंसा त्याग कर बौद्ध धर्म अपना लिया और बौद्ध धर्म के प्रचार में लग गये। सम्राट अशोक ने पुत्र महेन्द्र और पुत्री संघमित्रा को गया स्थित बोधिवृक्ष की शाखा (पौधा) देकर बौध धर्म के प्रचार के लिये श्रीलंका भेजा। श्रीलंका पहुंचकर महेन्द्र और संघमित्रा ने अनुराधपुरम में उस बोधिवृक्ष को लगाया जो आज भी वहां मौजूद है।श्रीलंका के अनुराधापुरम से बोधिवृक्ष का पौधा लेकर वहां के राष्ट्रपति महेन्द्र पक्षे मध्यप्रदेश के रायसेन जिले में सांची के पास सलामतपुर पहाड़ी पर बौद्ध विश्वविद्यालय के शिलान्यास के अवसर पर लगाया था। यह भी एक संयोग ही है, कि भारत से बौद्ध अनुयायी बहन संघमित्रा के साथ महेन्द्र बोधिवृक्ष का पौधा लेकर श्रीलंका गये थे और श्रीलंका से 21 सितम्बर 2012 बोधिवृक्ष लेकर भारत आए श्रीलंका के राष्ट्रपति का नाम भी महेन्द्र ही है।बिहार के गया जिले के बोधगया स्थित महाबोधि मंदिर परिसर में आज जो बोधि वृक्ष है, वह 1876 मे नष्ट हो गया था। उस समय लार्ड कनिंघम ने सन 1880 में श्रीलंका के अनुराधपुरम से बोधिवृक्ष की शाखा (पौधा) बुलवाकर इसे बोधगया में इसे पुनः लगवाया था, जो आज भी मौजूद है।

Dakhal News

Dakhal News 20 September 2020


rajgarh, Farmers ,for demand,crop insurance amount

राजगढ़। फसल बीमा की राशि न मिलने को लेकर किसानों का असंतोष सामने आने लगा है। इसे लेकर किसानों ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया है। रविवार सुबह राजगढ़ जिले में बीमा राशि नहीं मिलने से नाराज ग्रामीणों ने ब्यावरा-सुठालिया स्टेट हाइवे पर चक्काजाम कर दिया।   प्राप्त जानकारी के अनुसार फसल बीमा की राशि न मिलने से नाराज किसान ब्यावरा-सुठालिया स्टेट हाइवे पर जमा हो गए। उन्होंने पत्थर रखकर और वाहन खड़े करके रास्ता रोक दिया। फसल बीमा राशि दिए जाने की मांग कर रहे किसानों ने इसके लिए जमकर नारेबाजी भी की। किसानों के इस विरोध प्रदर्शन में सुठालिया क्षेत्र के ग्राम तलावली, समेली, निवानिया सहित अन्य गांवों के सैकड़ों किसान शामिल हुए।  इसके अलावा कम या नाममात्र की बीमा राशि मिलने को लेकर भी किसानों में असंतोष है। इस बारे में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने नियम बनाने की बात कही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह मामला बेहद संवेदनशील है और सरकार जल्द ही यह सुनिश्चत करेगी कि किसी भी किसान को एक सुनिश्चित राशि से कम का क्लैम न दिया जाए। यह राशि कितनी होगी, इस पर विचार किया जा रहा है।

Dakhal News

Dakhal News 20 September 2020


indore, 393 new cases ,corona found , seven people died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर जारी है। यहां संक्रमित मरीजों के साथ-साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। अब यहां कोरोना के 393 नये मामले सामने आए हैं, जबकि सात लोगों की मौत भी हुई है। इसके बाद इंदौर में संक्रमित मरीजों की संख्या 19,518 और मृतकों की संख्या 499 हो गई है।    इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने रविवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा शनिवार देर रात 3355 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 393 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 19,518 हो गई है। वहीं, इंदौर में सात लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 499 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 14,964 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 4055 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 20 September 2020


bhopal, The ruthless mother, turned out ,killer , one month old baby

भोपाल। राजधानी के खजूरी थाना क्षेत्र में दिल दहला देने वाले मामले का खुलासा हो गया है। निर्दयी मां ने ही अपनी एक महीने की बेटी किंजल को पानी की टंकी में डुबाकर मार डाला था। पूछताछ के बाद संदेह के घेरे में आई मां ने खुद ही बेटे की चाहत में मासूम बच्ची की हत्या की बात कबूल कर ली।   डीआईजी इरशाद वली के अनुसार एक महीने पहले ही 21 वर्षीय सरिता ने बेटी किंजल को जन्म दिया था। वह बेटा नहीं होने से दुखी थी। बुधवार को रोजाना की तरह घर के सभी 11 सदस्य सरिता को छोड़कर खेत पर चले गए। दोपहर करीब 11 बजे सरिता ने जोर-जोर से चिल्लाना शुरू कर दिया। उसने बताया कि किंजल कहीं मिल नहीं रही है। लोगों को लगा कि हो सकता है कि कोई जानवर ले गया हो गया हो। पुलिस ने भी उसकी तलाश की। इस दौरान बच्ची का शव घर में रखी पानी की टंकी में मिल गया। पोस्टमार्टम में भी डूबने से मौत की पुष्टि हुई। इस मामले में सरिता पर ही पुलिस को संदेह था। पूछताछ के दौरान परिजनों ने बताया कि सरिता पर जादू टोना है। ऐसे में संदेह और बढ़ गया। सख्ती से पूछताछ के बाद सरिता ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।   सरिता पूछताछ के दौरान लगातार पुलिस को गुमराह करती रही। उसका कहना था कि भूत आया है। बेटी होने के कारण उसे सभी ताना देते थे। उसने बेटी को पीने के पानी की टंकी में डुबोकर ऊपर से ढक्कन लगा दिया। इसके बाद उसने ही शोर मचाकर लोगों को जमा कर लिया। पुलिस से बात करते-करते वह कई बार बेहोश हुई। ऐसे में उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। खजूरी थाने के विवेचना अधिकारी सज्जन सिंह ने बताया कि खजूरी गांव के सचिन मेवाड़ा की शादी करीब एक साल पहले 21 साल की सरिता से शादी हुई थी। किंजल उनकी पहली संतान थी।

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2020


indore, record 396 ,newly infected ,corona found, also killed six people

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। यहां संक्रमित मरीजों के साथ-साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। अब यहां कोरोना के रिकॉर्ड 396 नये मामले सामने आए हैं, जबकि छह लोगों की मौत भी हुई है। इसके बाद इंदौर में संक्रमित मरीजों की संख्या 18,717 और मृतकों की संख्या 485 हो गई है। इंदौर में लगातार नौवीं बार एक दिन में कोरोना के 300 से अधिक नये मामले सामने आए हैं। इससे पहले यहां एक दिन में सर्वाधिक 393 नये सामने सामने आए थे।   इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने शुक्रवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा गुरुवार देर रात 3153 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 396 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 18,717 हो गई है। वहीं, इंदौर में छह लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 485 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 14,050 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या बढक़र 4182 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2020


bhopal, Weather update, Heavy rain alert , seven districts , possibility of lightning

भोपाल। मध्य प्रदेश में बारिश का सिलसिला अभी जारी रहेगा। हालांकि चटक धूप और उमस से लोग बेहाल है। दोपहर बाद कई हिस्सों में रोजाना बारिश राहत दे रही है। राजधानी भोपाल में शुक्रवार सुबह से तेज धूप निकली हुई है। इस बीच मौसम विभाग द्वारा अगले 24 घंटे में प्रदेश के कई जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी जारी की गई है।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि मध्य प्रदेश के 7 जिलों में आने वाले 24 घंटों में भारी बारिश हो सकती है। इसके अलावा 6 संभागों में बिजली चमकने और गिरने की संभावना जताई गई है। पिछले 24 घंटे में प्रदेश के इंदौर और जबलपुर संभागों के जिलों में बारिश हुई है, वहीं होशंगाबाद, उज्जैन, रीवा, शहडोल एवं सागर संभागों के जिलों में कुछ स्थानों पर एवं भोपाल और ग्वालियर संभाग के जिलों में कहीं कहीं बारिश दर्ज की गई है।   इन जिलों में हो सकती है भारी बारिशमौसम वैज्ञानिकों के अनुसार मध्य प्रदेश के बैतूल, धार, खंडवा, खरगोन, बड़वानी, अलीराजपुर और झाबुआ जिले में भारी बारिश की संभावना है। इसके अलावा पन्ना, सागर एवं दमोह जिलों में मौसम भी मौसम बदल सकता है और बिजली चमक सकती है। इसके अलावा मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि मध्यप्रदेश के शहडोल, जबलपुर, भोपाल, इंदौर, उज्जैन एवं होशंगाबाद संभाग में भी कुछ स्थानों पर बिजली चमकने और गिरने की संभावना है।

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2020


bhopal, Weather update, Heavy rain alert , seven districts , possibility of lightning

भोपाल। मध्य प्रदेश में बारिश का सिलसिला अभी जारी रहेगा। हालांकि चटक धूप और उमस से लोग बेहाल है। दोपहर बाद कई हिस्सों में रोजाना बारिश राहत दे रही है। राजधानी भोपाल में शुक्रवार सुबह से तेज धूप निकली हुई है। इस बीच मौसम विभाग द्वारा अगले 24 घंटे में प्रदेश के कई जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी जारी की गई है।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि मध्य प्रदेश के 7 जिलों में आने वाले 24 घंटों में भारी बारिश हो सकती है। इसके अलावा 6 संभागों में बिजली चमकने और गिरने की संभावना जताई गई है। पिछले 24 घंटे में प्रदेश के इंदौर और जबलपुर संभागों के जिलों में बारिश हुई है, वहीं होशंगाबाद, उज्जैन, रीवा, शहडोल एवं सागर संभागों के जिलों में कुछ स्थानों पर एवं भोपाल और ग्वालियर संभाग के जिलों में कहीं कहीं बारिश दर्ज की गई है।   इन जिलों में हो सकती है भारी बारिशमौसम वैज्ञानिकों के अनुसार मध्य प्रदेश के बैतूल, धार, खंडवा, खरगोन, बड़वानी, अलीराजपुर और झाबुआ जिले में भारी बारिश की संभावना है। इसके अलावा पन्ना, सागर एवं दमोह जिलों में मौसम भी मौसम बदल सकता है और बिजली चमक सकती है। इसके अलावा मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि मध्यप्रदेश के शहडोल, जबलपुर, भोपाल, इंदौर, उज्जैन एवं होशंगाबाद संभाग में भी कुछ स्थानों पर बिजली चमकने और गिरने की संभावना है।

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2020


shivpuri, grandmother drowned, pond, including two innocent brothers

  शिवपुरी। शिवपुरी जिले के इंदार थाना अंतर्गत ग्राम बरोदिया के तालाब में डूबने से गुरूवार को दो मासूम भाइयों सहित उनकी दादी की मौत हो गई। तालाब में डूब रहे मासूम बच्चों को बचाने दादी की भी डूबने से मौत हो गई है। बताया जाता है कि मासूम बच्चों को डूबता देख उन्हें बचाने के लिए उनकी दादी बलिया बाई ने तालाब में छलांग लगा दी, लेकिन पानी गहरा होने से तीनों की डूबने से मौत हो गई।    तालाब में तीनों को डूबता देख एक 5 वर्षीय बच्ची ने गांव में जाकर बलिया बाई जाटव के परिजनों को सूचना दी जिस पर परिजनों और ग्रामीणों ने तीनों को तालाब से निकाला और बदरवास के सरकारी अस्पताल लेकर पहुंचे जहां डॉक्टर ने तीनों को मृत घोषित कर दिया। बरोदिया गांव में हुई इस हृदय विदारक घटना से ग्राम में शोक छा गया। थाना प्रभारी गब्बर सिंह गुर्जर ने बताया कि ग्राम बरोदिया में तालाब के पास अपनी दादी बलिया बाई जाटव उम्र 50 साल के साथ चारा कटाने गए दो मासूम पोते राज पुत्र राजकुमार उम्र 5 और रोहित पुत्र राजकुमार जाटव उम्र 7 साल खेलते हुए तालाब में नहाने चले गए। बताया जाता है कि इसी दौरान दोनों बच्चे तालाब में नहाते हुए गहरे पानी में चले गए और डूबने लगे।  

Dakhal News

Dakhal News 17 September 2020


bhopal, MP State-level, wildlife conservation week ,celebrated from October 1

भोपाल। मध्यप्रदेश में आगामी एक अक्टूबर से सात अक्टूबर तक राज्य स्तरीय वन्य प्राणी संरक्षण सप्ताह मनाया जाएगा। इस दौरान भोपाल स्थित वन विहार राष्ट्रीय उद्यान में विभिन्न प्रतियोगिता आयोजित होंगी। वन विहार राष्ट्रीय उद्यान संचालक राजेश श्रीवास्तव ने बताया कि 1 से 7 अक्टूबर तक रोजाना होने वाली प्रतियोगिताओं में भाग लेने के लिए प्रतिभागियों को 28 सितम्बर 2020 के पहले पंजीयन कराना जरूरी होगा। उन्होंने बताया कि इस वर्ष की प्रतियोगिताओं में सीमित संख्या में प्रतिभागियों को प्रवेश की सुविधा मिल सकेगी।   संरक्षण सप्ताह में दरम्यान चित्रकला, रंगोली प्रतियोगिता, 'वल्चर्स ऑफ मध्यप्रदेश' थीम पर ऑनलाइन फोटो प्रतियोगिता, फेसबुक और यू-ट्यूब पर ऑनलाइन सजीव वार्तालाप 'टाइगर्स फॉर वाटर सिक्यूरिटी' विषय पर होगी। इसके साथ ही स्वच्छता अभियान, पक्षी दर्शन एवं प्रकृति शिविर, 'खजाने की खोज', फेस पेंटिग प्रतियोगिता का आयोजन भी किया जाएगा।   इसी दरम्यान वन विहार में तितली पार्क में तितलियों को जानिए 'नेचर कैम्प', विहार वीथिका में एनीमल कीपर्स के साथ सीधा संवाद होगा। 'शहरों के बीच संरक्षित क्षेत्रों का प्रबंधन' विषय पर ऑनलाइन वार्ता, मेहदी प्रतियोगिता, दीवार पेंटिग प्रतियोगिता, ऑनलाइन कविता प्रतियोगिता, सृजनात्मक कार्यशाला, फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता और ऑनलाइन के जरिए जस्ट ए मिनिट प्रतियोगिता जैसे विभिन्न कार्यक्रमों की प्रस्तुति होगी।   वन्य प्राणी सप्ताह के दौरान वन्य-प्राणी फोटो प्रतियोगिता 'वन्य प्राणी उनके रहवास' विषय पर होगी। इसी दौरान विभागीय गतिविधियों पर प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी। अंतिम दिन 7 अक्टूबर को दोपहर में वन्य-प्राणी संरक्षण सप्ताह का समापन समारोह आयोजित होगा।

Dakhal News

Dakhal News 17 September 2020


Damoh, Thieves attacked,Jain shrine Belaji, flew 12 idols of God

दमोह। जिले के पटेरा थाना क्षेत्र अंतर्गत देवडोंगरा में स्थित प्रसिद्ध जैन तीर्थ स्थल बेला जी से बीती रात भगवान की 12 प्रतिमाएं चोरी हो गई। बुधवार सुबह घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू की। जानकारी मिलने के बाद एसपी हेमंत चौहान भी घटनास्थल पहुंचे और मौका-मुआयना कर चोरों की तलाश करने के निर्देश दिये। चोरी हुई प्रतिमाओं की कीमत पौने दो लाख रुपये के आसपास बताई गई है।   पटेरा थाना प्रभारी सुषमा श्रीवास्तव ने बताया कि बुधवार को सुबह जैन तीर्थ बेलाजी में प्रतिमाएं चोरी होने की सुचना मिली थी। सूचना मिलने के बाद उन्होंने पुलिसबल के साथ मौके पर पहुंचकर मुआयना किया। इस दौरान जैन तीर्थ के आचार्य सिद्धांत सागर महाराज ने बताया कि मंगलवार की रात चोरों ने वारदात को अंजाम दिया। जैन तीर्थ बेलाजी में पारसनाथ भगवान के बगल में रखी 12 प्रतिमाएं अज्ञात चोर चुरा ले गए। उन्होंने बताया कि एक प्रतिमा का वजन 12 किलो के लगभग है और सभी प्रतिमाएं पीतल धातु से बनी है, जिनकी कीमत करीब एक लाख 70 हजार रुपये के आसपास है।    सूचना मिलते ही एसपी हेमंत चौहान भी मौके पर पहुंच गए और चोरों की शीघ्र गिरफ्तारी के निर्देश दिये। पुलिस ने अज्ञात चोरों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है और उनकी तलाश की जा रही है। चोरों की तलाश के डाग स्वायड की मदद ली जा रही है।

Dakhal News

Dakhal News 16 September 2020


indore, Corona records, 393 new patients ,found, six people died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर जारी है। यहां संक्रमित मरीजों के साथ-साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ती जा रही है। अब यहां कोरोना के रिकॉर्ड 393 नये मामले सामने आए हैं, जबकि छह लोगों की मौत भी हुई है। इसके बाद इंदौर में संक्रमित मरीजों की संख्या 17,940 और मृतकों की संख्या 473 हो गई है। इंदौर में लगातार सातवीं बार एक दिन में कोरोना के 300 से अधिक नये मामले सामने आए हैं। इससे पहले यहां एक दिन में सर्वाधिक 386 नये सामने सामने आए थे।   इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने बुधवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा मंगलवार देर रात 2741 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 393 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि 2342 रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 17,940 हो गई है। वहीं, इंदौर में छह लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 473 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 12,068 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं, लेकिन अधिक संख्या में नये संक्रमित मिलने से यहां सक्रिय मरीजों की संख्या बढक़र 5399 हो गई है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 16 September 2020


gwalior, Corona changed, the way of operations, booking clerk, slips of vehicles

ग्वालियर। कोरोना ने दफ्तरों में कामकाज का तरीका ही बदल दिया है। इसका नजारा ग्वालियर रेलवे स्टेशन की प्रीमियम कार पार्किंग में पहुंच कर देख सकते हैं। कोरोना काल से पहले रेल बुकिं ग विंडो पर बैठकर टिकट की बिक्री करने वाले बुकिंग क्लर्क कोरोना काल में जनरल टिकट की बिक्री बंद होने के कारण पार्किंग में पहुंचने वाले चार पहिया वाहनों की रसीद काट रहे हैं।   दरअसल, कोरोना काल ने पूरे भारत में कामकाज करने का तौर तरीका ही बदलने को मजबूर कर दिया है। जो काम पहले व्यक्तिगत मौजूदगी में संभव थे, उन्हें वच्र्चुअल प्लेटफार्म पर शिफ्ट कर किया जा रहा है। वहीं दैनिक जीवन से जुड़े कई कामकाजों को पूरी तरह से बदल डाला है। इसी को देखते हुए रेलवे ने अपनी व्यवस्था में बड़ा बदलाव किया है। एक जून से सीमित संख्या में ट्रेनों का परिचालन शुरु करने के बाद घर में बैठे बुकिंग क्लर्क ों की ड्यूटी रेलवे ने प्रीमियम कार पार्र्किंग में लगाकर उनसे काम कराया जा रहा है। कल तक टिकट बांटते दिखने वाले रेलवे के ये बाबू हाथ में पर्ची लेकर पार्किंग में पहुंचने वाले चार पहिया वाहनों की रसीद काट रहे हैं।    प्लेटफार्म पर दो पहिया वाहन स्टेशन के एक नंबर सर्कुलेटिंग एरिया में दो पहिया वाहन पार्किंग तो संचालित हो रही है लेकिन यात्रियों के साथ आने वाले परिजन वाहन के साथ सर्कुलेटिंग एरिया में नहीं पहुंच रहे हैं। ऐसे में दो पहिया वाहन पार्किंग दिन में ही संचालित हो रही है। वहीं रात में रेलवे कर्मचारियों के साथ ही जीआरपी व अन्य रेलवे का स्टॉफ जिसकी ड्यूटी रात में है, उनके वाहन प्लेटफार्म के अंदर खड़े हुए देख सकते हैं।

Dakhal News

Dakhal News 16 September 2020


indore, Corona met, records 386 ,new patients, four also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर जारी है। यहां संक्रमित मरीजों के साथ-साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ती जा रही है। अब यहां कोरोना के रिकॉर्ड 386 नये मामले सामने आए हैं, जबकि चार लोगों की मौत भी हुई है। इसके बाद इंदौर में संक्रमित मरीजों की संख्या 17,547 और मृतकों की संख्या 467 हो गई है। इंदौर में लगातार छठवीं बार एक दिन में कोरोना के 300 से अधिक नये मामले सामने आए हैं। इससे पहले यहां एक दिन में सर्वाधिक 379 नये सामने सामने आए थे।   इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने मंगलवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा सोमवार देर रात 2959 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 386 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 17,547 हो गई है। वहीं, इंदौर में चार लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 467 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 11,782 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं, लेकिन अधिक संख्या में नये संक्रमित मिलने से यहां सक्रिय मरीजों की संख्या बढक़र 5298 हो गई है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 15 September 2020


bhopal, Online examinations ,will start ,22 September, Sanchi University

भोपाल। सांची बौद्ध-भारतीय ज्ञान अध्ययन विश्वविद्यालय में आगामी 22 सितम्बर से ऑनलाइन सेमेस्टर परीक्षाएं आयोजित होने जा रही हैं। विश्वविद्यालय की परीक्षा शाखा ने मध्य प्रदेश शासन उच्च शिक्षा विभाग द्वारा कोविड-19 की गाइडलाइन के अनुसार सभी तैयारियां कर ली हैं। परीक्षा शाखा तथा विश्वविद्यालय के सभी विभागों के शिक्षकों ने परीक्षा में सम्मिलित होने वाले समस्त छात्रों से संपर्क कर लिया है और उन्हें इस ओपन बुक परीक्षा में शामिल होने के लिए ऑनलाइन फॉर्म भरने को कहा गया है। परीक्षा शाखा सभी छात्रों को ऑनलाइन परीक्षा में सम्मिलित होने के तरीके के बारे में सूचित कर रही है।      टाइम टेबिल के अनुसार 22 सितम्बर को विभागवार प्रश्न पत्र विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर अपलोड किया जाएगा। छात्रों को इस प्रश्नपत्र के आधार पर अपने स्वयं के ए-4 आकार के एक समान पेपरों पर इन प्रश्नपत्रों को हल करना होगा। सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे तक का समय परीक्षार्थी को उत्तर लिखने के लिए दिया जाएगा। इसके बाद एक घंटे का समय उत्तर पुस्तिका के सभी 16 पेजों को स्कैन करके  विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर अपलोड करना होगा। छात्रों को उत्तर पुस्तिका के सभी पृष्ठों को पी.डी.एफ फार्मेट में स्कैन कर परीक्षा शाखा द्वारा प्रदाय एड्रेस पर अपलोड करना होगा। सर्टिफिकेट पाठ्यक्रम की परीक्षा का समय 11 बजे से 1 बजे तक होगा।

Dakhal News

Dakhal News 14 September 2020


bhopal, Online examinations ,will start ,22 September, Sanchi University

भोपाल। सांची बौद्ध-भारतीय ज्ञान अध्ययन विश्वविद्यालय में आगामी 22 सितम्बर से ऑनलाइन सेमेस्टर परीक्षाएं आयोजित होने जा रही हैं। विश्वविद्यालय की परीक्षा शाखा ने मध्य प्रदेश शासन उच्च शिक्षा विभाग द्वारा कोविड-19 की गाइडलाइन के अनुसार सभी तैयारियां कर ली हैं। परीक्षा शाखा तथा विश्वविद्यालय के सभी विभागों के शिक्षकों ने परीक्षा में सम्मिलित होने वाले समस्त छात्रों से संपर्क कर लिया है और उन्हें इस ओपन बुक परीक्षा में शामिल होने के लिए ऑनलाइन फॉर्म भरने को कहा गया है। परीक्षा शाखा सभी छात्रों को ऑनलाइन परीक्षा में सम्मिलित होने के तरीके के बारे में सूचित कर रही है।      टाइम टेबिल के अनुसार 22 सितम्बर को विभागवार प्रश्न पत्र विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर अपलोड किया जाएगा। छात्रों को इस प्रश्नपत्र के आधार पर अपने स्वयं के ए-4 आकार के एक समान पेपरों पर इन प्रश्नपत्रों को हल करना होगा। सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे तक का समय परीक्षार्थी को उत्तर लिखने के लिए दिया जाएगा। इसके बाद एक घंटे का समय उत्तर पुस्तिका के सभी 16 पेजों को स्कैन करके  विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर अपलोड करना होगा। छात्रों को उत्तर पुस्तिका के सभी पृष्ठों को पी.डी.एफ फार्मेट में स्कैन कर परीक्षा शाखा द्वारा प्रदाय एड्रेस पर अपलोड करना होगा। सर्टिफिकेट पाठ्यक्रम की परीक्षा का समय 11 बजे से 1 बजे तक होगा।

Dakhal News

Dakhal News 14 September 2020


Sehore, Police constable, dies from Corona, final farewell , state honors

सीहोर। सीहोर जिला पुलिस बल में पदस्थ आरक्षक धनश्याम वर्मा को बीती रात कोरोना के चलते उपचार के दौरान मौत हो गई। सोमवार को सुबह उनका अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान उन्हें पुलिसकर्मियों द्वारा भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई। इसके बाद कोलीपुरा मृक्तिधाम में पूरे राजकीय सम्मान गार्ड ऑफ ऑनर के साथ सलामी देकर अंतिम विदाई दी गई।   आरक्षक घनश्याम वर्मा सीहोर के कोतवाली थाना में पदस्थ रहते हुए डायल 100 में तैनात थे। रविवार को उनकी तबियत खराब होने के बाद उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती किया गया था, जहां कोरोना जांच में उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, लेकिन रात में ही अचानक उनकी तबियत ज्यादा बिगड़ गई और देर रात उपचार के दौरान उनका निधन हो गया।    उल्लेखनीय है कि जिले के आष्टा थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम कोठरी निवासी धनश्याम वर्मा पुलिस सेवा में आरक्षक के पद 09 नवम्बर 1989 में जिला भोपाल में भर्ती हुये थे तथा इनके द्वारा 31 साल पुलिस विभाग में सेवा की गई। इनकी पदस्थापना जिले के थाना जावर, नसरूल्लागंज, सिद्धिकगंज, अजाक एवं कोतवाली तथा रक्षित केन्द्र सीहोर में रही है। कोरोना योद्धा धनश्याम वर्मा के पार्थिव शरीर को सोमवार सुबह 11.00 बजे कोलीपुरा मृक्तिधाम ले जाया गया, जहां पुलिस अधिकारियों-कर्मचारियों ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की और पूरे राजकीय सम्मान गार्ड ऑफ ऑनर के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया।   इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक एसएस चौहान, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक समीर यादव, डीएसपी अर्चना अहिर, डीएसपी सोनू परमार, रक्षित निरीक्षक कविता डामोर, निरीक्षक कोतवाली थाना प्रभारी अनिल बुधौलिया, सूबेदार देवनारायण पाण्डेय, सूबेदार बजमोहन धाकड़ सहित अन्य स्टाफ तथा नागरिक उपस्थित रहे। सभी ने शहीद धनश्याम वर्मा के परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की।

Dakhal News

Dakhal News 14 September 2020


bhopal, Corona infected, number 88,948 ,1772 deaths

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना का कहर जारी है। यहां अब पांच जिलों में कोरोना के 701 नये मामले सामने आए हैं जबकि 10 लोगों की मौत हुई है। इसके बाद राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 88,948 हो गई है। प्रदेश में कोरोना से अब तक 1772 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि राज्य में अब तक 65,998 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच चुके हैं, लेकिन बड़ी संख्या में लगातार नये संक्रमित मिलने से यहां सक्रिय मरीज बढ़कर 21 हजार के करीब पहुंच गए हैं।   इंदौर की प्रभारी सीएमएचओ डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने सोमवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा रविवार देर रात जारी 1995 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट में 379 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि पांच लोगों की कोरोना से मौत की पुष्टि हुई है। अब जिले में संक्रमितों की कुल संख्या 17,161 और मृतकों की संख्या 463 हो गई है। वहीं भोपाल सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी के अनुसार राजधानी में सोमवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में कोरोना के 210 नये मामले सामने आए हैं, जबकि पांच लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। इसके अलावा उज्जैन में 49, बैतूल में 42 और मुरैना में 21 नये संक्रमित मिले हैं।   इन 701 नये मामलों के साथ अब राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 88,948 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 17,161, भोपाल 13,397, ग्वालियर, 7640, जबलपुर 6214, मुरैना 2284, उज्जैन 2279, खरगौन 2352, बड़वानी 1442, नीमच 1518, सागर 1564, शिवपुरी 1608, खंडवा 1182, रतलाम 1500, मंदसौर 1146, धार 1407, विदिशा 1245, राजगढ़ 1022, देवास 950, भिण्ड 706, रीवा 1120, बुरहानपुर 616, रायसेन 973, सीहोर 1079, छतरपुर 819, दमोह 1078, नरसिंहपुर 1110, होशंगाबाद 897, बैतूल 1154, दतिया 965, शाजापुर 667, टीकमगढ़ 567, श्योपुर 664, कटनी 634, सतना 871, छिंदवाड़ा 716, झाबुआ 983, अलीराजपुर 843, सिंगरौली 474, हरदा 613, सीधी 519, शहडोल 907, बालाघाट 542, पन्ना 364, गुना 460, आगरमालवा 304, अशोकनगर, 313, सिवनी 415, अनूपपुर 552, निवाड़ी 254, उमरिया 221, डिंडौरी 259 और मंडला 378 मरीज शामिल हैं।   इंदौर-भोपाल में हुई 10 मौतों के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 1772 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 463, भोपाल 329, उज्जैन 83, बुरहानपुर 25, खंडवा 26, जबलपुर 110, खरगौन 33, ग्वालियर 83, धार 20, मंदसौर 14, नीमच 23, सागर 72, देवास 17, रायसेन 19, होशंगाबाद 23, सतना 23, आगरमालवा 06, झाबुआ 09, अशोकनगर 12, शाजापुर 08, दतिया 10, छिंदवाड़ा 14, सीहोर 23, उमरिया 03, रतलाम 30, बड़वानी 16. मुरैना 18, राजगढ़ 15, श्योपुर 04, टीमकगढ़ 17, रीवा 17, गुना 12, हरदा 14, कटनी 11, सीधी 02, शिवपुरी 15, अलीराजपुर 09, भिंड 05, बैतूल 24, नरसिंहपुर 07, सिवनी 07, सिंगरौली 07, छतरपुर 20, विदिशा 27, दमोह 20, बालाघाट 01, अनूपपुर 06, शहडोल 12, निवाड़ी 01,मंडला 05 और पन्ना का एक व्यक्ति शामिल है।

Dakhal News

Dakhal News 14 September 2020


bhopal,Number, corona infected, MP was 86,691, 1738 deaths

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना का कहर जारी है। यहां अब पांच जिलों में कोरोना के 725 नये मामले सामने आए हैं जबकि 10 लोगों की मौत हुई है। इसके बाद राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 86,691 हो गई है। प्रदेश में कोरोना से अब तक 1738 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि, राज्य में अब तक 64,398 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं, लेकिन लगातार बड़ी संख्या में संक्रमित मिलने से यहां सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 19 हजार के पार पहुंच गई है।   इंदौर की प्रभारी सीएमएचओ डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने रविवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा शनिवार देर रात जारी 3135 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट में 351 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए हैं। जिले में सात लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 16,782 और मृतकों की संख्या 458 हो गई है। भोपाल सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी के अनुसार, राजधानी में रविवार सुबह 234 नये संक्रमित मिले हैं और तीन लोगों की कोरोना से मौत की पुष्टि हुई है। इसके अलावा सागर में 72, उज्जैन में 47 और नीमच में 21 नये पॉजिटिव मिले हैं।   इन 725 नये मामलों के साथ अब राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 86,691 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 16,782, भोपाल 13,179, ग्वालियर, 7484, जबलपुर 6018, मुरैना 2246, उज्जैन 2230, खरगौन 2281, बड़वानी 1398, नीमच 1505, सागर 1565, शिवपुरी 1560, खंडवा 1164, रतलाम 1464, मंदसौर 1118, धार 1335, विदिशा 1222, राजगढ़ 1011, देवास 924, भिण्ड 699, रीवा 1082, बुरहानपुर 611, रायसेन 953, सीहोर 1035, छतरपुर 806, दमोह 1008, होशंगाबाद 860, बैतूल 1071, दतिया 935, शाजापुर 652, टीकमगढ़ 550, श्योपुर 659, कटनी 600, सतना 832, छिंदवाड़ा 679, झाबुआ 946, अलीराजपुर 835, सिंगरौली 457, हरदा 597, नरसिंहपुर 1047, सीधी 505, शहडोल 848, बालाघाट 536, पन्ना 350, गुना 443, आगरमालवा 292, अशोकनगर, 312, सिवनी 395, अनूपपुर 530, निवाड़ी 251, उमरिया 213, डिंडौरी 252 और मंडला 364 मरीज शामिल हैं।    इंदौर-भोपाल में हुई 10 मौतों के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 1738 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 458, भोपाल 324, उज्जैन 83, बुरहानपुर 25, खंडवा 26, जबलपुर 108, खरगौन 33, ग्वालियर 81, धार 19, मंदसौर 14, नीमच 23, सागर 69, देवास 17, रायसेन 19, होशंगाबाद 23, सतना 22, आगरमालवा 06, झाबुआ 09, अशोकनगर 12, शाजापुर 08, दतिया 10, छिंदवाड़ा 13, सीहोर 23, उमरिया 03, रतलाम 29, बड़वानी 16. मुरैना 17, राजगढ़ 15, श्योपुर 04, टीमकगढ़ 15, रीवा 17, गुना 10, हरदा 14, कटनी 11, सीधी 02, शिवपुरी 15, अलीराजपुर 09, भिंड 05, बैतूल 22, नरसिंहपुर 06, सिवनी 07, सिंगरौली 07, छतरपुर 19, विदिशा 27, दमोह 20, बालाघाट 01, अनूपपुर 05, शहडोल 09, निवाड़ी 01,मंडला 05 और पन्ना का एक व्यक्ति शामिल है।

Dakhal News

Dakhal News 13 September 2020


Bhopal, Fire in AC warehouse, explosion due ,cylinder explosion

भोपाल। शहर के अशोका गार्डन थाना क्षेत्र स्थित आजाद मंडी में रविवार तड़के करीब 3 बजे एसी के एक गोदाम में आग लग गई। रिहायशी इलाके में बने इस गोदाम में आग के कारण जब सिलेंडर फटने लगे, तो दहशत फैल गई। घरों में धुआं भरने के कारण लोगों को सांस लेने में भी परेशानी हुई। पुलिस और फायर ब्रिगेड की टीम ने करीब 4 घंटों की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। फिलहाल आग लगने के कारणों का पता नहीं चल सका है।   प्राप्त जानकारी के अनुसार  नारियल खेड़ा निवासी अनीस खान का आजाद मंडी में एसी का गोदाम है। इसमें एसी रिपेयरिंग से लेकर अन्य सभी कार्य किए जाते हैं। गोदाम में एसी में उपयोग की जाने वाली गैस के कई सिलेंडर भी रखे थे। रात को सामान्य दिनों की तरह काम खत्म कर अनीस अपने घर चले गए थे। रविवार तड़के लोगों ने गोदाम से धुआं निकलते देखकर फायर ब्रिगेड को सूचना दी। जिसके बाद मौके पर पुल बोगदा समेत दो फायर स्टेशन से गाड़ियां भेजी गईं। सुबह करीब 7 बजे 5 दमकलों ने आग पर पूरी तरह काबू पा लिया। हालांकि गोदाम में घुसने के लिए कोई दूसरा रास्ता नहीं होने के कारण आग बुझाने में परेशानी आई। इससे गोदाम में रखा पूरा माल जलकर राख हो गया। अनीस खान का कहना है कि आकलन करने के बाद ही नुकसान के बारे में बता पाएंगे। गोदाम के आसपास रहवासी इलाका बताया जाता है। गोदाम में गैस के सिलेंडर भी रखे हुए थे, जो आग के कारण फट गए। धमाके भी हुए। हालांकि इसमें कोई हताहत नहीं हुआ और एक बड़ा हादसा टल गया।

Dakhal News

Dakhal News 13 September 2020


shivpuri, Side effects, election meetings begin, Shivpuri Collector ,SP Corona positive

शिवपुरी। जिले में बीते दिनों शुरू हुई राजनीतिक गतिविधियों के साइड इफैक्टस अब दिखाई देने लगे हैं।  शिवपुरी कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह और एसपी राजेश सिंह चंदेल कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। कलेक्टर और एसपी होम आइसोलेट हो गए हैं। दोनों अधिकारियों ने अपील करते हुए कहा है कि जो भी लोग उनके संपर्क में आये हों वह सभी अपनी जांच करवा लें। इसके अलावा शिवपुरी जिले में शनिवार रात को 53 कोरोना पॉजीटिव मरीज चिह्नित हुए हैं। इस तरह से शिवपुरी जिले में अभी तक 1801 कोरोना  पॉजिटिव केस मिल चुके हैं इनमें से 1235 सही हो चुके हैं।    चुनावी सभाओं आई तेजी शिवपुरी जिले में होने वाले विधानसभा उपुचनाव के लिए शुक्रवार के दिन पोहरी और करैरा में आयोजित कार्यक्रमों में भारी भीड़ शामिल हुई थी। इस मौके पर आयोजित भाजपा की आमसभा में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर सहित अन्य नेता शामिल हुए थे, जिसकी व्यवस्था की देखरेख कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक थे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह को कई बार अपने पास बुलाकर चर्चा भी की थी। इसके अलावा कलेक्टर की पत्नी और बेटा भी पॉजिटिव पाए गए हैं। रेपिड किट सैंपल में पुलिस अधीक्षक भी पॉजीटिव आए हैं। जिले में कोरोना किस हद तक अपने पैर पसार चुका है इस बात का अंदाजा इससे ही लगाया जा सकता है कि जब कलेक्टर व एसपी पॉजीटिव हो सकते हैं तो फिर चुनावी सभा में आई हजारों की भीड़ में कितने लोग कोरोना पॉजिटिव हुए होंगे।    शिवपुरी में अब तक 1801 कोरोना पॉजिटिव केस मिले शिवपुरी जिले में कोरोना पॉजिटिव केस मिलने का सिलसिला जारी है। जिले में अभी तक 1801 कोरोना  पॉजिटिव केस मिल चुके हैं इनमें से 1235 स्वस्थ हो चुके हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 13 September 2020


bhopal, NEET exam , 26 centers ,10 places scheduled ,for students

भोपाल। प्रदेश में नीट की परीक्षा रविवार, 13 सितम्बर को भोपाल जिले में निर्धारित 26 परीक्षा केंद्रों पर आयोजित की जाएगी, जिसमें प्रदेशभर से विद्यार्थी शामिल होंगे। जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा विभिन्न जिलों राजगढ़, गुना, अशोकनगर, सिंगरौली, सीधी, रीवा, सतना, दमोह, टीकमगढ़,रायसेन, छतरपुर, विदिशा, होशंगाबाद, हरदा, बालाघाट, सीहोर, शाजापुर, आगर मालवा, इंदौर एवं अन्य जिलों से आने वाले लगभग 2000 विद्यार्थियों के लिए 5 एकत्रीकरण एवं पार्किंग स्थल निर्धारित किए गए हैं।   इसी प्रकार भोपाल के 132 विद्यार्थियों सहित निर्धारित परीक्षा केंद्रों पर पहुंचाने के लिए सुगम परिवहन व्यवस्था हेतु समस्त विद्यार्थियों के लिए 10 एकत्रीकरण केंद्र बनाए गए हैं, जहां वे विद्यार्थियों को 26 परीक्षा केंद्रों पर लाइजिनिंग अधिकारियों के साथ से समयानुकूल उपस्थित सुनिश्चित कराई जाएगी।   इस कार्य के लिए जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में नियंत्रण कक्ष 10 सितम्बर से संचालित हो रहा है, जिसके प्रभारी राजेश बाथम, सहायक संचालक मोबाइल नंबर 9826716925 एवं सहायक प्रभारी डीडी पवार मोबाइल नंबर 7205 9047 नीट परीक्षा में शामिल होने वाले परीक्षार्थियों को यदि किसी भी प्रकार की परेशानी दिक्कत आती है तो वहां इन नंबरों पर संपर्क स्थापित कर सकते हैं। अन्य जिलों से आने वाले विद्यार्थियों की सुविधा हेतु हेल्प डेस्क व्यवस्था रहेगी जिसके लिए हेल्प डेक्स, नियंत्रण केंद्र नादरा बस स्टैंड, आईएसबीटी, हबीबगंज रेलवे स्टेशन, भोपाल रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड अधिकारी, कर्मचारी उपस्थित रहेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 12 September 2020


indore,Corona breaks ,all records ,341 new patients,seven died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर जारी है। यहां संक्रमित मरीजों के साथ-साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ती जा रही है। अब यहां कोरोना के रिकॉर्ड 341 नये मामले सामने आए हैं, जबकि सात लोगों की मौत हुई है। इसके बाद इंदौर में संक्रमित मरीजों की संख्या 16,431 और मृतकों की संख्या 451 हो गई है। इंदौर में लगातार तीसरी बार बार एक दिन में कोरोना के 300 से अधिक नये मामले सामने आए हैं। इससे पहले यहां 326 नये सामने सामने आए थे, जबकि छह लोगों की मौत हुई थी। अब यहां कोरोना से सारे पुराने रिकार्ड तोड़ दिये।   इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने शनिवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा शुक्रवार देर रात 2838 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 341 व्यक्ति  पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन 341 नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 16,431 हो गई है। वहीं, इंदौर में सात लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 451 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 11,204 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं, लेकिन अधिक संख्या में नये संक्रमित मिलने से यहां सक्रिय मरीजों की संख्या बढक़र 4776 हो गई है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 12 September 2020


bhopal, Heavy rainfall ,expected, 9 districts ,Yellow alert issued

भोपाल। प्रदेश में एक बार फिर झमाझम बारिश होने वाली है। तीन मानसूनी सिस्टम सक्रिय होने से प्रदेश में रविवार से बारिश का एक और दौर शुरू होने के आसार हैं। रविवार को बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बनने जा रहा है। इसके अलावा पूर्वी उत्तर प्रदेश से लेकर विदर्भ तक बादलों ने एक श्रृंखला ट्रफ लाइन बना ली है। यही कारण है कि मध्य प्रदेश के कई इलाकों में बादलों की गरज के साथ हल्की फुल्की बारिश शुरू हो गई है। लेकिन आगे भारी बारिश हो सकती है। मौसम विज्ञान केंद्र ने यलो अलर्ट जारी किया है।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने बताया कि बंगाल की खाड़ी से उठे बादल अरब सागर का पानी ला रहे हैं। वर्तमान में बंगाल की खाड़ी में एक चक्रवात बना हुआ है। उसके रविवार को कम दबाव के क्षेत्र में परिवर्तित होने की संभावना है। पटना से छत्तीसगढ़ तक एक द्रोणिका (ट्रफ) बनी हुई है। मानसून द्रोणिका भी गंगानगर से टीकमगढ़, सीधी होते हुए बंगाल की खाड़ी तक जा रही है। इन तीन सिस्टम के कारण वातावरण में नमी आ रही है। इससे राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश स्थानों पर बारिश की गतिविधियां हो रही हैं। रविवार को बंगाल की खाड़ी में मौजूद सिस्टम के आगे बढ़ने पर प्रदेश के दक्षिण-पूर्वी क्षेत्र में बरसात का सिलसिला शुरू होने की संभावना है।   9 जिलों में मूसलाधार बारिश की संभावना 13 सितम्बर को बंगाल की खाड़ी से कम दबाव के क्षेत्र के आगे बढ़ने की संभावना है। इसके बाद प्रदेश के कई स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। विभाग ने प्रदेश के नौ जिलों में मूसलाधार बारिश की संभावना जताई है। इस दौरान भोपाल, इंदौर, उज्जैन, रतलाम, देवास, धार, मंदसौर, ग्वालियर, गुना समेत इस क्षेत्र के विभिन्न जिलों में व्यापक वर्षा होगी।

Dakhal News

Dakhal News 12 September 2020


ratlam, Two pair trains , run from Indore station, special train , Jaipur Mysuru

रतलाम। पश्चिम रेलवे रतलाम मंडल के इंदौर स्टेशन से शनिवार से दो जोड़ी स्पेशल ट्रेनें एवं रतलाम मंडल के नागदा-उज्जैन होते हुए जयपुर मैसूरू जयपुर स्पेशल एक्सप्रेस का परिचालन किया जाएगा।     मंडल रेल प्रवक्ता जितेन्द्र कुमार जयंत ने शुक्रवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि गाड़ी संख्या 02911 इंदौर हावड़ा स्पेशल एक्सप्रेस 12 सितम्बर से अगले आदेश तक इंदौर स्टेशन से प्रति शनिवार, मंगलवार एवं गुरुवार को चलकर मंडल के देवास, उज्जैन, शुजालपुर स्टेशन होते हुए हावड़ा पहुंचेगी। इसी प्रकार वापसी में गाड़ी संख्या 02912 हावड़ा इंदौर स्पेशल एक्सप्रेस 14 सितंबर से अगले आदेश तक प्रति सोमवार, गुरुवार एवं शनिवार को हावड़ा से चलकर रतलाम मंडल के शुजालपुर, उज्जैन एवं देवास होते हुए इंदौर पहुचेगी।    इस ट्रेन का दोनों दिशाओं में देवास, उज्जैन, शुजालपुर, संत हिरदाराम नगर, विदिशा, गंज बसौदा, बीना, खुरई, सागर, दमोह, कटनी मुरवाड़ा,मैहर, सतना, मानिकपुर, डभौरा, शंकरगढ़, प्रयागराज छिवकी, विंध्याचल, मिर्जापुर, चुनार, पंडित दीनदयाल उपाध्याय जं, भभुआ रोड, सासाराम, अनुग्रह नारायण रोड,गया जं, कोडरमा, पारसनाथ, गोमो जं, धनबाद जं, आसनसोल मेन, दुर्गापुर, बर्धमान स्टेशनों पर ठहरेगी।   गाड़ी संख्या 02911 इंदौर हावड़ा स्पेशल एक्सप्रेस संत हिरदाराम नगर स्टेशन पर आगमन/प्रस्थान 03.40/03.45 बजे तथा गाड़ी संख्या 02912 हावड़ा इंदौर स्पेशल एक्सप्रेस का संत हिरदाराम स्टेशन पर आगमन प्रस्थान 21.00/21.05 बजे होगी।       गाड़ी संख्या 02416 नई दिल्ली इंदौर स्पेशल एक्सप्रेस 12 सितम्बर से अगले आदेश तक प्रतिदिन नई दिल्ली से 22.00 बजे चलकर रतलाम मंडल के नागदा(08.45/08.50), उज्जैन(09.40/09.45), देवास(10.20/10.22) होते हुए 11.40 बजे इंदौर जं पहुंचेगी। इसी प्रकार वापसी में गाड़ी संख्या 02415 इंदौर नई दिल्ली स्पेशल एक्सप्रेस 13 सितम्बर,2020 से प्रतिदिन अगले आदेश तक इंदौर से 16.35 बजे चलकर देवास(17.05/17.07) उज्जैन(17.35/17.40)  एवं नागदा(19.10/19.15)  होते हुए दूसरे दिन प्रात: 06.10 बजे नई दिल्ली पहुंचेगी।    इस ट्रेन का दोनों दिशाओं में  देवास, उज्जैन, नागदा, विक्रमगढ़ आलोट, चौमहला, शामगढ़, भवानीमंडी, रामगंज मंडी, कोटा, सवाई माधोपुर, गंगापुरसिटी, बयाना जं, भरतपुर, मथुरा जं, एवम निजामुद्दीन स्टेशनों पर ठहराव दिया गया है। इस गाड़ी में एक फर्स्ट ए सी, एक सेकंड ए सी , तीन थर्ड ए सी, बारह स्लीपर एवं तीन सामान्य श्रेणी के कोच रहेंगे।    गाड़ी संख्या 02976 जयपुर मैसूरु स्पेशल एक्सप्रेस 14 सितम्बर से प्रति सोमवार एवम बुधवार को जयपुर से 19.35 बजे चलकर रतलाम मंडल के नागदा(02.25/02.50), उज्जैन(03.50/04.00) होते हुए गाड़ी चलाने के तीसरे दिन 15.30 बजे मैसूरु जं पहुंचेगी। इसी प्रकार वापसी में गाड़ी संख्या 02975 मैसूरु जयपुर स्पेशल सुपरफास्ट एक्सप्रेस 17 सितम्बर, 2020 से अगले आदेश तक मैसूरु से प्रति गुरुवार एवं शनिवार को मैसूरु जं से 10.40 बजे चलकर रतलाम मंडल के उज्जैन(21.25/21.35 गाड़ी चलाने के दूसरे दिन), नागदा(22.45/23.10) होते हुए गाड़ी चलाने के तीसरे दिन 06.15 बजे जयपुर पहुंचेगी।   इस ट्रेन का दोनो दिशाओं में दुर्गापुरा, सवाई माधोपुर, कोटा, भवानी मंडी, नागदा, उज्जैनन, संत हिरदाराम नगर, भोपाल, हबीबगंज, होशंगाबाद, इटारसी जं, बैतुल, पांडुरना, नागपुर, सेवाग्राम, चन्द्रापुर, बल्लाहारशाह, सिरपुर कागजनगर, बेलमपल्ली , मंचिर्याल, काजीपेट, काचीगुडा, महबूब नगर, गुंटकल, अनंतपुर, हिंदूपुर, बंगलोर कैंट, के एस आर बेंगलूरू एवं  मंड्या स्टेशनों पर ठहराव दिया गया है।  इस ट्रेन में 01 फस्र्ट ए सी कम सेकंड एसी, दो सेकंड एसी, पांच थर्ड एसी, ग्यारह स्लीपर एवं दो सामान्यन श्रेणी के कोच रहेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 11 September 2020


Rewa,EOW raid , government teacher

रीवा। आय से अधिक संपत्ति की शिकायत मिलने के बाद आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने रीवा जिले के शाहपुर थाना क्षेत्र के ग्राम गनिगवा में शुक्रवार सुबह सरकारी शिक्षक महेन्द्र कुमार सिंह के घर छापामार कार्रवाई की। बताया जा रहा है कि लाखों की चल-अचल संपत्ति के दस्तावेज बरामद हुए हैं। फिलहाल, कार्रवाई जारी है।    जानकारी के मुताबिक, निरीक्षक प्रवीण कुमार के नेतृत्व में ईओडब्ल्यू की टीम ने शुक्रवार सुबह पांच बजे ग्राम गनिगवा निवासी शिक्षक महेन्द्र कुमार सिंह के घर दबिश दी और सर्चिंग शुरू की। बताया जा रहा है कि शिक्षक के यहां से टीम को दो ट्रैक्टर, कार और जमीन के दस्तावेज बरामद हुए हैं। बताया गया है कि शिक्षक के खिलाफ अनैतिक तरीके से आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने की शिकायत मिलने के बाद यह कार्रवाई की गई। फिलहाल कार्रवाई जारी है। ईओडब्ल्यू की टीम शिक्षक की अन्य संपत्तियों का पता लगाने में जुटी है।

Dakhal News

Dakhal News 11 September 2020


ujjain,51 new cases,corona found, 54 in Sagar

उज्जैन/सागर। मध्यप्रदेश में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब यहां उज्जैन जिले में कोरोना के 51 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 2100 के पार पहुंच गई है। वहीं, सागर जिले में भी कोरोना के 54 नये मरीज मिलने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या 1476 हो गई है।   उज्जैन सीएमएचओ कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक, जिले में गुरुवार देर रात 849 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी हुई, जिनमें 51 नये संक्रमित मिले हैं। इनमें 45 मरीज उज्जैन के रहने वाले हैं, जबकि तीन बडऩगर, दो नागदा और एक खाचरोद तहसील का निवासी है। इन 51 नये मरीजों के बाद जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 2132 हो गई है। हालांकि, यहां अब तक 1664 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच चुके हैं, लेकिन लगातार बड़ी संख्या में नये संक्रमित मिलने से यहां सक्रिय मरीज बढक़र 400 हो गए हैं, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है। जिले में अब तक कोरोना से 83 लोगों की मौत हो चुकी है।   वहीं, सागर सीएमएचओ कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज द्वारा गुरुवार देर रात जारी जांच रिपोर्ट में 54 मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई है। इसके बाद जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 1476 हो गई है। वहीं, जिले में अब तक कोरोना से 94 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि, यहां अब तक 1000 मरीज कोरोना के मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। शेष मरीजों का उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 11 September 2020


ujjain,51 new cases,corona found, 54 in Sagar

उज्जैन/सागर। मध्यप्रदेश में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब यहां उज्जैन जिले में कोरोना के 51 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 2100 के पार पहुंच गई है। वहीं, सागर जिले में भी कोरोना के 54 नये मरीज मिलने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या 1476 हो गई है।   उज्जैन सीएमएचओ कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक, जिले में गुरुवार देर रात 849 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी हुई, जिनमें 51 नये संक्रमित मिले हैं। इनमें 45 मरीज उज्जैन के रहने वाले हैं, जबकि तीन बडऩगर, दो नागदा और एक खाचरोद तहसील का निवासी है। इन 51 नये मरीजों के बाद जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 2132 हो गई है। हालांकि, यहां अब तक 1664 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच चुके हैं, लेकिन लगातार बड़ी संख्या में नये संक्रमित मिलने से यहां सक्रिय मरीज बढक़र 400 हो गए हैं, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है। जिले में अब तक कोरोना से 83 लोगों की मौत हो चुकी है।   वहीं, सागर सीएमएचओ कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज द्वारा गुरुवार देर रात जारी जांच रिपोर्ट में 54 मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई है। इसके बाद जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 1476 हो गई है। वहीं, जिले में अब तक कोरोना से 94 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि, यहां अब तक 1000 मरीज कोरोना के मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। शेष मरीजों का उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 11 September 2020


Gwalior,Cleaners ,will not work ,from September 21

ग्वालियर। लंबे समय से अपनी आठ सूत्रीय मांगों को लेकर निगमायुक्त से लेकर मुख्यमंत्री तक से मिलकर मांगे पूरी करने को लेकर गुहार लगा चुके सफाई कर्मचारियों का गुस्सा नगर निगम के साथ ही शहरवासियों को भी भारी पड़ सकता है। यदि यह अपनी जिद पर अड़े रहे तो त्योहारी सीजन में शहर में हर ओर कचरा पसरा दिखाई देगा, क्योंकि आने वाली 21 सितम्बर से सफाई कर्मियों ने बेमियादी हड़ताल का बिगुल फूंकते हुए खुद को काम से अलग करने की घोषणा कर दी है। यानि आने वाले समय में लोगों की दिक्कत बढ़ सकती हैं।    भारतीय मजदूर संघ राज्य सफाई कामगार मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष व ग्वालियर-चंबल संभाग प्रभारी सीताराम खरे ने गुरुवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि निगम द्वारा छोटे कर्मचारियों का लगातार शोषण किया जा रहा है,  ऐसे में मजबूर होकर हड़ताल का निर्णय लेना पड़ा है। इसके चलते 17 सितंबर को शाम चार बजे निगम मुख्यालय पर प्रदर्शन व नारेबाजी, 18 सितंबर को धरना और 21 सितंबर से बेमियादी हड़ताल शुरु कर दी जाएगी और कोई भी सफाई कर्मचारी काम पर नहीं आएगा । हड़ताल का फैसला सर्व सम्मति से लिया गया है, जिसमें दो सैकड़ा से अधिक पदाधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे। इस हड़ताल की पूरी जिम्मेदारी नगर निगम प्रशासन की होगी।   हड़ताल सफल बनाने की अपील:    अरविंद मिश्रा, प्रदेश मंत्री भारतीय मजदूर संघ नारायण करौसिया, डब्ल्यूएचओ सफाई मित्र संघर्ष मोर्चा जिला अध्यक्ष सीताराम खरे प्रदेश उपाध्यक्ष भारतीय मजदूर संघ सफाई कामगार मोर्चा राजेंद्र मौर्य विशन पारछे गुलाब घारोन, वीरेंद्र करोसिया रघुवीर खरे मध्यप्रदेश, डब्लू एच ओ ताराचंद पवार, राजेंद्र पारछे, राजकुमार कड़ेरे गोरी दास बिहारी अनिल धौलकर राजेंद्र करौसिया, राजकुमार चौहान, कृष्णपाल मेहता, रघुवर दीवान, अजीत मेवाती, रामचंद्र धौलपुरिया आदि ने सभी कर्मचारियों से हड़ताल को सफल बनाने की अपील की है।   मांग पत्र में डब्ल्यूएचओ पर सफाई के अलावा जो काम कराया जा रहा है वह खत्म किया जाए, डब्ल्यूएचओ व सफाई कर्मचारियों का काम 8 घंटे निर्धारित किया जाए। सफाई कर्मचारियों को सातवें वेतन का एरियर का भुगतान किया जाए, क्योंकि सुपरस्टाफ को सातवें वेतन का भुगतान किया जा चुका है एवं सफाई कर्मचारियों के साथ ऐसा सौतेला व्यवहार क्यों किया जा रहा है। शेष बचे सफाई कर्मचारियों का फिक्सेशन किया जाए आउटसोर्स कर्मचारियों का वेतन बंद कर दिया गया है एडवांस के जरिए जो पैसे दिए जा रहा है वह ठीक नहीं एडवांस बंद कर पूरा वेतन दिया जाए, वेतन सेल का गठन किया जाए ताकि सफाई कर्मचारियों को हर महीने हो रही परेशानियों से निजात मिल सके, मध्यप्रदेश शासन द्वारा कोरोना योद्धाओं को 10000 रुपए प्रोत्साहन राशि दी गई थी, जिसका भुगतान आंगनबाड़ी के सभी कार्यकर्ताओं को किया जा चुका है लेकिन सफाई कर्मचारियों का आज दिनांक तक भुगतान नहीं किया गया है । जिन्होंने रात-दिन मेहनत कर कोरोना जैसी महामारी में अपने परिवार की जान की परवाह ना करते हुए काम किया इन कर्मचारियों को 10000 की राशि तुरंत दी जाए । विनियमित कर्मचारियों को जिनके 10 साल पूरे हो चुके है उनको परमानेंट किया जाए, मध्य प्रदेश शासन के अनुसार ठेका प्रथा खत्म कर ठेका कर्मचारियों को निगम में सम्मिलित किया जाए। राष्ट्रीय छुट्टियों का पेमेंट किया जाए। गल्ला लोन तत्काल दिया जाए। विनियमित एवं ठेका प्रथा पर कार्य कर रहे कर्मचारियों को एक या दो अपसेंट पर हटा दिया जाता है, इन्हें तत्काल वापस लिया जाए।  

Dakhal News

Dakhal News 10 September 2020


indore, Corona records ,312 new cases, found , six people also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर जारी है। यहां संक्रमित मरीजों के साथ-साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ती जा रही है। अब यहां कोरोना के रिकॉर्ड 312 नये मामले सामने आए हैं, जबकि छह लोगों की मौत हुई है। इंदौर में पहली बार एक दिन में 300 से अधिक नये संक्रमित मिले हैं। इसके बाद जिले में संक्रमितों की कुल संख्या 15,764 और मृतकों की संख्या 438 हो गई है।    इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने गुरुवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा बुधवार देर रात 3245 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 312 व्यक्ति  पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन 312 नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 15,764 हो गई है। वहीं, इंदौर में छह लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 438 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 10,949 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं, लेकिन अधिक संख्या में नये संक्रमित मिलने से यहां सक्रिय मरीजों की संख्या बढक़र 4377 हो गई है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 10 September 2020


bhopal, Signs of return, monsoon, Madhya Pradesh, Meteorological Department

भोपाल। मध्य प्रदेश में सितम्बर के महीने में लोगों को मई-जून जैसी गर्मी का एहसास हो रहा है। लोग झुलसा देने वाली गर्मी से बेहाल हैं। प्रदेश भर में बहुत ज्यादा गर्मी पड़ने के साथ ही अधिकतम तापमान में भी बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है। इस बीच मौसम विभाग ने प्रदेश में मानसून की वापसी के संकेत दिए हैं। इस सप्ताह प्रदेश में कुछ स्थानों पर अच्छी बरसात की उम्मीद जताई है। उत्तर प्रदेश से दक्षिण-पश्चिम मप्र तक एक द्रोणिका (ट्रफ) बनी हुई है। इसके प्रभाव से कहीं-कहीं बरसात हो रही है।   मौसम विभाग ने 10 सितम्बर तक बंगाल की खाड़ी में आंध्रा तट और उड़ीसा तट के बीच एक ऊपरी हवा का चक्रवात बनने की संभावना जताई है। इसके चलते प्रदेश में भी झमाझम बारिश के आसार हैं। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में ऊपरी हवा का एक चक्रवात बना हुआ है। यह सिस्टम 13 सितम्बर को कम दबाव के क्षेत्र में परिवर्तित होकर आगे बढ़ेगा। इसके प्रभाव से प्रदेश के कुछ स्थानों पर अच्छी बरसात का दौर शुरू होने की संभावना है। हालांकि इस सिस्टम के गुजरने के बाद बरसात की गतिविधियों में कमी आने लगेगी। वहीं, एक सप्ताह के अंदर पश्चिमी राजस्थान पर एक प्रतिचक्रवात बनने की संभावना है। इससे हवाओं के रुख में भी परिवर्तन होगा। यह मानसून की विदाई का स्पष्ट संकेत है।   मध्य प्रदेश के इन जिलों में हो सकती है बारिश: अगले 24 घंटे के दौरान दक्षिण-पूर्वी मध्य प्रदेश में बालाघाट, सिवनी, छिंदवाड़ा, बैतूल, होशंगाबाद, रायसेन, नरसिंहपुर, जबलपुर, डिंडोरी, अनूपपुर, उमरिया, कटनी, शहडोल, दमोह और सागर तक वर्षा होने की संभावना है। इंदौर, धार, झाबुआ, अलीराजपुर, उज्जैन और रतलाम में छिटपुट बारिश हो सकती है। रीवा, छतरपुर, ग्वालियर, गुना, भिंड, मुरैना सहित बाकी जिलों में मौसम शुष्क रहेगा। 24 घंटे बाद मध्य प्रदेश में बारिश और कम हो जाएगी। बारिश का अगला स्पेल 17 या 18 सितंबर को आ सकता है, जब समूचे राज्य में तीन-चार दिनों के दौरान भारी वर्षा दर्ज की जाएगी।

Dakhal News

Dakhal News 10 September 2020


damoh, NDRF team lost,son discovered ,father

  दमोह। करीब 24 दिन पहले एक बुजुर्ग साइकिल सहित नदी के तेज बहाव में बह गया था। पुलिस और एसडीआरएफ की टीम भी तमाम प्रयासों के बाद उसे खोज नहीं पाई लेकिन बुजुर्ग के बेटे ने हार नहीं मानी। आखिरकार हादसे के 24 दिन बाद उसने नदी से पिता का शव खोज निकाला।   मृतक का नाम झुर्र अहिरवार (50) है। वह तेंदूखेड़ा का रहने वाला था। बीती 16 अगस्त को साइकिल से कहीं जा रहा था। पठा घाट पर नदी का पुल पार करते समय पानी का बहाव तेज हो गया और झुर्र अहिरवार साइकिल सहित नदी में बह गया। हादसे की सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस झुर्र अहिरवार को नहीं तलाश पाई तो दमोह, सागर औऱ जबलपुर जिले की एनडीआरएफ की टीमों को लगाया गया। ये टीमें 11 दिन लगातार बुजुर्ग को तलाशती रहीं, लेकिन असफल रहीं और अंत में हार मान ली।   लेकिन झुर्र अहिरवार के बेटे अशोक का कलेजा पिता के लिए कचोटता रहा। उसने हार नहीं मानी। वह रोज नदी के किनारे जाता और घंटों पिता को तलाशता रहता। आखिरकार उसे 24 दिन बाद बुधवार की सुबह सफलता मिल गई। खर्राघाट पुल के करीब 100 फीट की दूरी पर झाड़ियों में फंसा उसके पिता का शव मिल गया। यह सूचना गांववालों को मिली तो सभी नदी पर पहुंच गए। उन सभी को झुर्र की मृत्यु का गम था तो उसके बेटे के प्रयास को देखकर खुशी भी थी। लोगों की आंखों से गम और खुशी के मिलेजुले आंसू छलक पड़े। घटना की सूचना पुलिस को दे दी गई है।  

Dakhal News

Dakhal News 9 September 2020


gwalior, Higher secondary, high school ,supplementary exams

ग्वालियर। माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड द्वारा हायर सेकेण्डरी और हाईस्कूल की पूरक परीक्षाओं की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं और यह परीक्षा शांतिपूर्ण तरीके से कोरोना संक्रमण का बचाव करते हुए कराने के लिए अफसर मंथन करने में जुट गए हैं। बोर्ड की इन परीक्षाओं में जिन परीक्षार्थियों की सप्लीमेंट्री आई है उनकी परीक्षाएं आगामी 14 सितम्बर से शुरू हो रही हैं।   बता दें कि माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं मार्च में आयोजित की गई थीं, लेकिन कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लागू लॉकडाउन के चलते यह परीक्षा निरस्त कर दी गईं। इसके बाद शेष बची हुई परीक्षाएं अप्रैल की माह में हुईं और जुलाई माह में परीक्षा परीणाम घोषित किया गया। इन दोनों बोर्ड कक्षाओं की पूरक परीक्षाएं आगामी 14 सितम्बर से शुरू होंगी। ग्वालियर शहर में यह परीक्षाएं आठ केंद्रों पर आयोजित की जाएंगी, जिसमें लगभग 8 हजार परीक्षार्थी शामिल हो रहे हैं।    शिक्षा विभाग के अनुसार 10वीं और 12वीं बोर्ड की सप्लीमेंट्री परीक्षा के लिए दो सौ से ज्यादा शिक्षकों को तैनात किया जा रहा है और यह शिक्षक सुबह 9 बजे से परीक्षाएं आयोजित कराएंगे। परीक्षा प्रभारी सचिन गुप्ता ने बताया कि हायर सेकेण्डरी की परीक्षाएं एक ही दिन होंगी, जिसमें 4 हजार 21 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे, वहीं हाईस्कूल की परीक्षाएं 14 सितम्बर से शुरू होकर 20 सितम्बर तक चलेंगी, जिसमें 3 हजार 744 परीक्षार्थी अपनी किस्मत आजमाएंगे।   डीएलएड का मूल्यांकन 18 से होगा   डीएलएड की परीक्षाएं इन दिनों शहर के 23 केंद्रों पर आयोजित की जा रही हैं और लगभग 40 हजार के करीब परीक्षार्थी अपनी किस्मत आजमाते हुए परीक्षाएं दे रहे हैं। परीक्षाएं 2 पालियों में हो रही है। परीक्षा के साथ-साथ इसके मूल्यांकन कार्य की तैयारी भी शुरू करा दी गई हैं। शिक्षा विभाग के अनुसार डीएलएड की परीक्षाएं 10 सितंबर को खत्म हो जाएंगी और मूल्यांकन कार्य 18 सितंबर से शुरू होगा।                   बोर्ड परीक्षा के दौरान जो परीक्षार्थी एक या दो विषय में रह गए थे, उनकी परीक्षा अभी हाल ही में आयोजित कराई गई थी जिसका मूल्यांकन कार्य शासकीय गोरखी स्कूल में शुरू हो गया है। रूक जाना नहीं के तहत सैकड़ों परीक्षार्थियों ने परीक्षा सेंटर पर पहुंचकर प्रश्न पत्र हल किया था। इनकी कॉपियों का मूल्यांकन करने के लिए एक सैकड़ा शिक्षकों को लगाया गया है।

Dakhal News

Dakhal News 8 September 2020


betul, 49 days, PM can discuss, couple who makes ,PM accommodation

बैतूल। मात्र 49 दिनों में दो मंजिला प्रधानमंत्री आवास बनाने का रिकार्डतोड़ कार्य करने वाली दम्पत्ति से आगामी 13 सितम्बर को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद चर्चा कर सकते हैं। नया दो मंजिला प्रधानमंत्री बनने से बारिश में टपकने वाले छप्पर से भी दम्पत्ति को निजात मिल गई है। वह खुश है कि उनका खुद का प्रधानमंत्री आवास बन गया है।    योजना से मिला था डेढ़ लाख  बैतूल जिले के उड़दन गांव के रहने वाली सुशीला देवी ने बताया कि वे पीएम मोदी से संवाद करने को लेकर उत्साहित हैं। उन्होंने कहा कि पीएम आवास योजना के तहत उन्हें घर बनाने के लिए डेढ़ लाख रुपए मिला था। घर बड़ा बन सके और मजदूरी का पैसा बचाया जा सके, इसलिए उन्होंने 49 दिनों में खुद दो मंजिला घर बना दिया।   दंपति ने खुद से बनाया घर महज 49 दिनों में दो मंजिला पीएम आवास बनाने वाले दम्पत्ति से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 9 से 12 सितंबर को मध्यप्रदेश के पीएम आवास हितग्राहियों के साथ वर्चुअल संवाद करेंगे। इनमें पीएम 12 सितंबर को उन हितग्राहियों से बात करेंगे जो गृह प्रवेश करेंगे। इस दौरान वे बैतूल के मजदूर दंपति सुशीला देवी और सुभाष से भी बात कर सकते हैं।  क्योंकि दोनों ने पीएम आवास योजना के तहत अपना घर खुद ही बनाया है। जिला पंचायत बैतूल द्वारा इसका प्रस्ताव भेजा गया है।    पीएम से चर्चा को लेकर उत्साहित है दम्पत्ति  बैतूल के उड़दन गांव के रहने वाली सुशीला देवी ने बताया कि वे पीएम मोदी से संवाद करने को लेकर उत्साहित हैं। उन्होंने कहा कि पीएम आवास योजना के तहत उन्हें घर बनाने के लिए डेढ़ लाख रुपए मिला था। घर बड़ा बन सके और मजदूरी का पैसा बचाया जा सके, इसलिए उन्होंने 49 दिनों में खुद ही दो मंजिला घर बना दिया। इसमे तीन बड़े कमरे, दलान, किचन और उसके साथ छोटा सा बगीचा शामिल है।    टूटी  छप्पर से टपकता था पानी पुराने दिनों को याद करते हुए सुशीला ने बताया कि पहले वे कच्चे घरों में रहते थे। इस दौरान जब बारिश होती थी तो छप्पर से पानी गिरता था। इसकी वजह से घर में पानी भर जाता था और पूरा परिवार परेशान होता था। इस दौरान घर गिरने का भी डर सताता था। लेकिन पीएम आवास योजना के तहत घर बनने से उनकी ये कठिनाई दूर हो गई है। अब उन्हें सिर्फ बच्चों का भविष्य संवारना है।   बैतूल के जिला पंचायत सीईओ एमएल त्यागी ने बताया कि हितग्राही ने जिस तरह खुद मेहनत कर आवास तैयार किया वह काबिले तारीफ है। उनकी मेहनत की वजह से उन्हें 13 अन्य योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है। दंपत्ति के इस कार्य के लिए पीएम से चर्चा करने प्रस्ताव भेजा गया है। 

Dakhal News

Dakhal News 8 September 2020


betul, 49 days, PM can discuss, couple who makes ,PM accommodation

बैतूल। मात्र 49 दिनों में दो मंजिला प्रधानमंत्री आवास बनाने का रिकार्डतोड़ कार्य करने वाली दम्पत्ति से आगामी 13 सितम्बर को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद चर्चा कर सकते हैं। नया दो मंजिला प्रधानमंत्री बनने से बारिश में टपकने वाले छप्पर से भी दम्पत्ति को निजात मिल गई है। वह खुश है कि उनका खुद का प्रधानमंत्री आवास बन गया है।    योजना से मिला था डेढ़ लाख  बैतूल जिले के उड़दन गांव के रहने वाली सुशीला देवी ने बताया कि वे पीएम मोदी से संवाद करने को लेकर उत्साहित हैं। उन्होंने कहा कि पीएम आवास योजना के तहत उन्हें घर बनाने के लिए डेढ़ लाख रुपए मिला था। घर बड़ा बन सके और मजदूरी का पैसा बचाया जा सके, इसलिए उन्होंने 49 दिनों में खुद दो मंजिला घर बना दिया।   दंपति ने खुद से बनाया घर महज 49 दिनों में दो मंजिला पीएम आवास बनाने वाले दम्पत्ति से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 9 से 12 सितंबर को मध्यप्रदेश के पीएम आवास हितग्राहियों के साथ वर्चुअल संवाद करेंगे। इनमें पीएम 12 सितंबर को उन हितग्राहियों से बात करेंगे जो गृह प्रवेश करेंगे। इस दौरान वे बैतूल के मजदूर दंपति सुशीला देवी और सुभाष से भी बात कर सकते हैं।  क्योंकि दोनों ने पीएम आवास योजना के तहत अपना घर खुद ही बनाया है। जिला पंचायत बैतूल द्वारा इसका प्रस्ताव भेजा गया है।    पीएम से चर्चा को लेकर उत्साहित है दम्पत्ति  बैतूल के उड़दन गांव के रहने वाली सुशीला देवी ने बताया कि वे पीएम मोदी से संवाद करने को लेकर उत्साहित हैं। उन्होंने कहा कि पीएम आवास योजना के तहत उन्हें घर बनाने के लिए डेढ़ लाख रुपए मिला था। घर बड़ा बन सके और मजदूरी का पैसा बचाया जा सके, इसलिए उन्होंने 49 दिनों में खुद ही दो मंजिला घर बना दिया। इसमे तीन बड़े कमरे, दलान, किचन और उसके साथ छोटा सा बगीचा शामिल है।    टूटी  छप्पर से टपकता था पानी पुराने दिनों को याद करते हुए सुशीला ने बताया कि पहले वे कच्चे घरों में रहते थे। इस दौरान जब बारिश होती थी तो छप्पर से पानी गिरता था। इसकी वजह से घर में पानी भर जाता था और पूरा परिवार परेशान होता था। इस दौरान घर गिरने का भी डर सताता था। लेकिन पीएम आवास योजना के तहत घर बनने से उनकी ये कठिनाई दूर हो गई है। अब उन्हें सिर्फ बच्चों का भविष्य संवारना है।   बैतूल के जिला पंचायत सीईओ एमएल त्यागी ने बताया कि हितग्राही ने जिस तरह खुद मेहनत कर आवास तैयार किया वह काबिले तारीफ है। उनकी मेहनत की वजह से उन्हें 13 अन्य योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है। दंपत्ति के इस कार्य के लिए पीएम से चर्चा करने प्रस्ताव भेजा गया है। 

Dakhal News

Dakhal News 8 September 2020


indore, Corona breaks all records, 295 new cases found ,one day, six deaths also

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर जारी है। यहां संक्रमित मरीजों के साथ-साथ इस महामारी से मरने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। अब यहां कोरोना के रिकॉर्ड 295 नये मामले सामने आए हैं, जबकि छह लोगों की मौत हुई है। इसके बाद जिले में संक्रमितों की कुल संख्या 15,165 और मृतकों की संख्या 427 हो गई है। इंदौर में एक दिन में कोरोना के इतने मरीज पहली बार सामने आए हैं। वहीं छह मौतें भी एक दिन में पहली बार हुई है।   इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने मंगलवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा सोमवार देर रात 2799 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 295 व्यक्ति  पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन 295 नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 15,165 हो गई है। वहीं, इंदौर में छह लोगों की मौत की भी पुष्टि होने के बाद यहां कोरोना से मरने वालों संख्या 427 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 10,499 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं, लेकिन लगातार बड़ी संख्या में नये मरीज मिलने से यहां सक्रिय मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ते हुए 4239 हो गई है।

Dakhal News

Dakhal News 8 September 2020


indore, Honeytrap case,Investigating officer, not reach regular hearing, court summoned

इंदौर। मध्यप्रदेश के हाईप्रोफाइल हनीट्रैप मामले की इंदौर की जिला अदालत में सोमवार को नियमित सुनवाई के दौरान जांच अधिकारी अदालत नहीं पहुंचे। इस पर अदालत ने नाराजगी जताई और जांच अधिकारों की जब्त साक्ष्य के साथ जिला अदालत में उपस्थित  होने के निर्देश दिये।   दरअसल, मध्यप्रदेश में पिछले साल उजागर हुए हनीट्रैप मामले की सुनवाई जिला एवं सत्र न्यायालय की विशेष न्यायाधीश रेणुका कंचन की अदालत में चल रही है। सोमवार को भी नियमित सुनवाई हुई, जिसमें मामले की जांच कर रहे पलासिया थाना प्रभारी को साक्ष्य के साथ उपस्थित होना था, लेकिन वे सुनवाई में उपस्थित नहीं हुए। इस पर विशेष न्यायाधीश ने नाराजगी जताते हुए उन्हें एक पत्र जारी किया और पलासिया थाना प्रभारी को साक्ष्य के साथ अदालत में उपस्थित होने के निर्देश दिये। 

Dakhal News

Dakhal News 7 September 2020


bhopal, Meteorological Department, predicted good rain , Gwalior, Ujjain division

भोपाल। मध्य प्रदेश में मौमस का मिजाज बदला हुआ है। दिन में तेज धूप निकलने और गर्मी के बाद शाम को बादल बरस रहे हैं। उत्तर-पूर्व राजस्थान और उससे लगे मप्र पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। अरब सागर में एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इसके अतिरिक्त हवा का रुख दक्षिणी बना हुआ है। इस वजह से प्रदेश के कुछ स्थानों पर गरज-चमक के साथ बरसात का सिलसिला जारी है। 8 और 9 सितंबर को प्रदेश भर के कई जिलों में हल्की बूंदाबांदी होने के आसार है। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक ममता यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि अरब सागर में बने सिस्टम और हवा का रुख लगातार दक्षिणी बना रहने से लगातार नमी आ रही है। उधर, प्रदेश में अब दिन का तापमान बढऩे लगा है। इससे शाम के समय गरज-चमक के साथ बौछारें पडऩे लगती हैं। सोमवार को पूरे प्रदेश में गरज-चमक के साथ बौछारें पडऩे के आसार हैं। ग्वालियर, उज्जैन संभाग के जिलों में अच्छी बरसात की संभावना है। 10 जिलों में हल्की बूंदाबांदी के आसारमौसम विभाग के अनुसार आने वाले 24 घंटे में 10 जिलों में हल्की बूंदाबांदी होने के आसार हैं। नीमच मंदसौर गुना, श्योपुर कला, बैतूल छिंदवाड़ा, सिवनी, बालाघाट, मंडला डिंडोंरी में गरज चमक के साथ हल्की बौछारें पडऩे की संभावना है। तो वहीं मौसम विभाग का कहना है कि आसपास फिलहाल कोई मानसूनी सिस्टम नहीं है इसलिए तापमान में इजाफा हो रहा है। इसके अलावा 8 और 9 सितंबर को प्रदेश भर में हल्की बूंदाबांदी होने के आसार हैं। इसके अलावा 7 सितंबर को भी प्रदेश के 10 जिलों में बारिश के आसार हैं। हालांकि, उमस और गर्मी से बेहाल लोगों को दोपहर में थोड़ी सी राहत मिली जब भोपाल में मौसम का मिजाज अचानक से बदला हुआ नजर आया।  

Dakhal News

Dakhal News 7 September 2020


bhopal, Meteorological Department, predicted good rain , Gwalior, Ujjain division

भोपाल। मध्य प्रदेश में मौमस का मिजाज बदला हुआ है। दिन में तेज धूप निकलने और गर्मी के बाद शाम को बादल बरस रहे हैं। उत्तर-पूर्व राजस्थान और उससे लगे मप्र पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। अरब सागर में एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इसके अतिरिक्त हवा का रुख दक्षिणी बना हुआ है। इस वजह से प्रदेश के कुछ स्थानों पर गरज-चमक के साथ बरसात का सिलसिला जारी है। 8 और 9 सितंबर को प्रदेश भर के कई जिलों में हल्की बूंदाबांदी होने के आसार है। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक ममता यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि अरब सागर में बने सिस्टम और हवा का रुख लगातार दक्षिणी बना रहने से लगातार नमी आ रही है। उधर, प्रदेश में अब दिन का तापमान बढऩे लगा है। इससे शाम के समय गरज-चमक के साथ बौछारें पडऩे लगती हैं। सोमवार को पूरे प्रदेश में गरज-चमक के साथ बौछारें पडऩे के आसार हैं। ग्वालियर, उज्जैन संभाग के जिलों में अच्छी बरसात की संभावना है। 10 जिलों में हल्की बूंदाबांदी के आसारमौसम विभाग के अनुसार आने वाले 24 घंटे में 10 जिलों में हल्की बूंदाबांदी होने के आसार हैं। नीमच मंदसौर गुना, श्योपुर कला, बैतूल छिंदवाड़ा, सिवनी, बालाघाट, मंडला डिंडोंरी में गरज चमक के साथ हल्की बौछारें पडऩे की संभावना है। तो वहीं मौसम विभाग का कहना है कि आसपास फिलहाल कोई मानसूनी सिस्टम नहीं है इसलिए तापमान में इजाफा हो रहा है। इसके अलावा 8 और 9 सितंबर को प्रदेश भर में हल्की बूंदाबांदी होने के आसार हैं। इसके अलावा 7 सितंबर को भी प्रदेश के 10 जिलों में बारिश के आसार हैं। हालांकि, उमस और गर्मी से बेहाल लोगों को दोपहर में थोड़ी सी राहत मिली जब भोपाल में मौसम का मिजाज अचानक से बदला हुआ नजर आया।  

Dakhal News

Dakhal News 7 September 2020


indore, 279 new cases, corona found, three people also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर जारी है। यहां संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। अब यहां कोरोना के 279 नये मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हुई है। इसके बाद जिले में संक्रमितों की कुल संख्या 14,870 और मृतकों की संख्या 421 हो गई है।   इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने सोमवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा रविवार देर रात 1954 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 279 व्यक्ति  पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि शेष रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन 279 नये मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 14,870 हो गई है। वहीं, इंदौर में तीन लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 421 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में कोरोना के मरीज तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं और अपने घर पहुंच रहे हैं। यहां अब तक 10,231 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं, लेकिन लगातार बड़ी संख्या में नये मरीज मिलने से यहां सक्रिय मरीजों की संख्या तेजी बढ़ते हुए 4218 हो गई है।    इंदौर में जिन लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, उनमें इंदौर के पूर्व महापौर और भाजपा के वरिष्ठ नेता कृष्णमुरारी मोघे भी शामिल हैं। दो दिन पहले वे उपचुनाव की तैयारियों के सिलसिले में बदनावर गए थे। रविवार को उन्होंने कोरोना टेस्ट कराया, जिसमें वे संक्रमित पाए गए। उनके अलावा भाजपा नेता गोलू शुक्ला, इंदौर सीए ब्रांच के अध्यक्ष हर्ष फिरोदा और सचिव गौरव माहेश्वरी, विधायक मालिनी गौड़ के भतीजे शुभेंद्र की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है।

Dakhal News

Dakhal News 7 September 2020