समाज


bhopal, Guidelines issued, passengers coming , other states, by air

भोपाल। भारत सरकार ने विभिन्न राज्यों में लॉकडाउन के चलते रुके हुए लोगों को अपने गृह राज्यों में वापस भेजने का निर्णय लिया है। इसके लिये हवाई मार्ग से यात्रा करने वाले यात्रियों के लिये दिशा-निर्देश जारी कर दिये गये हैं। इस निर्णय से मध्यप्रदेश में हवाई मार्ग से मुख्यतः इंदौर एवं भोपाल एयरपोर्ट पर यात्रियों की बहुतायत में आवागमन की संभावना है। गृह, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन सख्ती से सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये हैं। प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण श्री फैज अहमद किदवई ने दिशा-निर्देश जारी करते हुए बताया है कि प्रदेश में इन यात्रियों का एयरपोर्ट पर ही मेडिकल परीक्षण किया जाकर आवश्यक कार्यवाही की जायेगी। हवाई यात्रा से आने वाले यात्रियों के संबंध में जारी दिशा-निर्देश प्रमुख सचिव श्री किदवई ने निर्देश जारी करते हुए बताया है कि प्रदेश में अन्य राज्यों से हवाई मार्ग द्वारा यात्रा करने वाले यात्रियों द्वारा संबंधित एयरपोर्ट के अराइवल तथा डिपार्चर क्षेत्र में ही चिकित्सकीय जांच एवं स्व-घोषणा पत्र (व्यक्तिगत विवरण सहित फोन नंबर तथा प्रदेश में स्थाई निवास का पता) प्रस्तुत करना और निर्धारित स्वास्थ्य काउंटर पर चिकित्सकीय परीक्षण (थर्मल स्क्रीनिंग) कराना अनिवार्य होगा। चिकित्सीय परीक्षण के (थर्मल स्क्रीनिंग) दौरान यात्री जिनमें संभावित कोविड-19 के लक्षण पाए जाते हैं, ऐसे यात्रियों का कोविड-19 टेस्ट कराया जाए और जांच में परिणाम नेगेटिव आने पर ही घर भेजा जाए। यदि कोविड-19 टेस्ट में यात्री पॉजिटिव पाया जाता है तो ऐसे यात्री को अनिवार्य रूप से लक्षणों के आधार पर निर्धारित कोविड केयर सेण्टर अथवा डेडिकेटेड कोविड हेल्थ केयर सेण्टर अथवा संस्थागत आइसोलेशन किया जाना होगा। ऐसी स्थिति में जिले में निर्धारित कोविड केयर सेण्टर अथवा डेडिकेटेड कोविड हेल्थ केयर सेण्टर अपने आइसोलेशन सेण्टर में 10 दिवस के लिए भर्ती किया जाए। निर्धारित 10 दिवस की आइसोलेशन अवधि उपरांत रोगी की चिकित्सा जाँच कर विगत 3 दिन पूर्व से लक्षणविहीन पाए जाने पर उनकी आइसोलेशन अवधि समाप्त की जा सकती है। परन्तु यात्रियों को आगामी 07 दिवस तक होम आइसोलेशन में प्रोटोकाल पालन करते हुए घर पर ही रहने की सलाह देकर भेजा जा सकता है। जांच अवधि के दौरान यात्रियों को निर्धारित क्वारेंटाइन सेंटर में रखा जाना सुनिधित किया जाए। इन समस्त यात्रियों की सघन निगरानी के लिये उनके मोबाइल फ़ोन में 'आरोग्य सेतु ऍप' इंस्टॉल कराया जाए, जिससे मॉनिटरिंग सुनिश्चित हो सके।   ऐसे यात्री जो एयरपोर्ट के जिले के निवासी नहीं है अथवा किसी अन्य जिलों में प्रस्थान कर रहे है, उन जिलों के कलेक्टरों को सम्बंधित यात्रियों की सूचना प्रदान की जाए।

Dakhal News

Dakhal News 25 May 2020


ujjain, 25 new coronas ,found in Ujjain, 10 in Burhanpur infected

उज्जैन/बुरहानपुर। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। रविवार को देर रात आई रिपोर्ट में उज्जैन में 25 और बुरहानपुर में 10 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद उज्जैन में संक्रमित मरीजों की संख्या 578 और बुरहानपुर में 281 पहुंच गई है।उज्जैन के सीएमएचओ कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक, रविवार को देर रात आई रिपोर्ट में 25 नये पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इनमें उज्जैन शहर के 24 और बडऩगर का एक व्यक्ति शामिल है। वहीं, शहर में कोरोना से एक व्यक्ति की मौत की भी पुष्टि हुई है। यहां अब संक्रमित मरीजों की संख्या 578 हो गई है, जबकि मरने वालों का आंकड़ा 54 पहुंच गया है। राहत की खबर यह है कि अब तक जिले में 237 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और वे पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं। वहीं, बुरहानपुर में सोमवार सुबह आई रिपोर्ट में 10 नये कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इसके साथ ही अब जिले में संक्रमित मरीजों की संख्या 289 हो गई है। यहां अब तक 13 लोगों की मौत भी हो चुकी है। हालांकि, जिले में 128 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं, लेकिन लगातार संक्रमित मरीज सामने आने के बाद जिला प्रशासन की चिंता बढ़ गई है।

Dakhal News

Dakhal News 25 May 2020


bhopal, Eid prayers, held homes, MP, pray,world  freed Corona

भोपाल। मध्यप्रदेश में राजधानी भोपाल समेत सभी शहरों, नगरों एवं कस्बों में मुस्लिम धर्मावलम्बियों द्वारा सोमवार को ईद का पर्व मनाया जा रहा है। कोरोना संक्रमण से बचने की सलाह और लॉकडाउन के नियमों का पालन करते हुए उन्होंने अपने घरों में रहकर ही ईद की नमाज अदी की और दुनिया को कोरोना से मुक्ति दिलाने की दुआ मांगी। वहीं, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए एक-दूसरे को ईद की शुभकामनाएं दी जा रही हैं।प्रदेश में ईद से पहले सभी जिला मुख्यालयों पर हुई शांति समिति की बैठकों में यह पर्व घरों में रहकर मनाने की सहमति बनी थी। इसी के मुताबिक, मुस्लिम बंधुओं ने सोमवार सुबह ईद की नमाज अपने घरों में अदा की। शहर काजी सैयद मुश्ताक अली नदवी ने बताया कि मस्जिदों में जिस तरह चार-पांच लोग रोजाना पांच वक्त की नमाज अदा करते हैं, उसी तरह ईद की नमाज भी हुई। अन्य सभी लोगों ने घरों में रहकर ही ईद की नमाज पढ़ी। इसी तरह पूरे प्रदेश में ईद मनाई जा रही है। समाज के लोग सोशल डिस्टेसिंग और अन्य प्रोटोकॉल का पालन करते हुए एक-दूसरे को सोशल मीडिया और मोबाइल के माध्यम से ईद की बधाई और शुभकामनाएं दे रहे हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 25 May 2020


bhopal, Central Semen Institute, plays, leading role, milk production , breed improvement

भोपाल। देश एवं प्रदेश में गौ-भैंस वंशीय पशुओं की उन्नत नस्ल तैयार कराने में मध्यप्रदेश राज्य पशुधन एवं कुक्कुट विकास निगम द्वारा संचालित केन्द्रीय वीर्य संस्थान भोपाल अग्रणी भूमिका निभा रहा है। यह संस्थान भारत सरकार से ए ग्रेड तथा आईएसओ 2001-2015 प्रमाण पत्र प्राप्त संस्थान है। भारतीय कृषि अर्थ-व्यवस्था में पशुपालन एवं डेयरी व्यवसाय महत्वपूर्ण स्थान रखता है। यह व्यवसाय ग्रामीणजनों के कल्याण, सामाजिक, आर्थिक विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। डेयरी व्यवसाय को और अधिक लाभ का धंधा बनाने के लिए पशुओं की दुग्ध उत्पादन क्षमता को और अधिक विकसित किया जा रहा है। इस दिशा में केन्द्रीय वीर्य संस्थान भोपाल निरंतर प्रयासरत है। निगम के प्रबंध संचालक श्री एच.बी.एस. भदौरिया ने बताया कि केन्द्रीय वीर्य संस्थान भोपाल राज्य की प्रजनन नीति के अनुसार हिमीकृत वीर्य की मांग की पूर्ति करता है। संस्थान के द्वारा कुल 16 नस्लों के गौ-भैंस वंशीय नंदी के प्रतिवर्ष 28 लाख तक हिमीकृत वीर्य डोजेज का उत्पादन किया गया है। जिन्हें भविष्य में बढ़ाकर 40 लाख तक किए जाने का लक्ष्य है। उन्होंने ने बताया कि प्रदेश की गौ-भैंस वंशीय नस्लों का जैविक सुरक्षा मानकों के अनुसार संधारण किया जाता है। पशुओं की दुग्ध उत्पादन क्षमता पशु की अनुवांशिक दुग्ध उत्पादन क्षमता एवं उपयुक्त पर्यावरण पर निर्भर करता है। भदभदा स्थित इस संस्थान में 16 उन्नत नस्ल के नंदी रखे गए हैं। उच्च श्रेणी के साण्डों के वीर्य का उपयोग उनकी संतति की दुध उत्पादन क्षमता में महत्वपूर्ण योगदान देता है। ऐसे साण्डों से उत्पन्न हिमीकृत वीर्य का उपयोग किसी भी प्रजनन में अत्यधिक महत्व रखता है।  

Dakhal News

Dakhal News 23 May 2020


sehore, Unidentified miscreants, set fire , car parked outside,  CMO

सीहोर। मध्य प्रदेश के सीहोर जिले में बुधनी नगर परिषद सीएमओ के घर के बाहर खड़ी कार में शुक्रवार देर रात अज्ञात बदमाशों ने आग लगा दी। आग से कार पूरी तरह जलकर खाक हो गई। आग की चपेट में आकर घर में लगा एसी और खिडक़ी भी जल गया। सूचना के बाद मौके पर पहुंची फायर बिग्रेड ने आग पर काबू पाया। यह पूरा घटनाक्रम वहां लगे एक सीसीटीवी में कैद हो गया है। पुलिस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपितों का पता लगाने में जुट गई है।    जानकारी अनुसार बुधनी नगर परिषद सीएमओ ज्योति सुनहरे अपनी मां और तीन साल की बेटी के साथ घर के अंदर सो रही थी। इस दौरान देर रात करीब तीन बजे दो अज्ञात बदमाशों ने उनके घर के सामने खड़ी कार में पेट्रोल डालकर आग लगा दी। आग तेजी से भडक़ती हुई मकान में लगे एक एसी और खिडक़ी तक पहुंच गई। आवाज सुनकर सीएमओ ज्योति सुनहरे की नींद खुली और उन्हें आग लगने का पता लगा। लोगों ने तुरंत पुलिस और फायर बिग्रेड को सूचना दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड ने जल्द ही आग पर काबू पा लिया, जिससे बड़ी घटना टल गई। आगजनी का पूरा घटनाक्रम वहां लगे एक सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गया है। जिसमें साफ तौर पर देखा जा सकता है कि रात करीब 3 बजे दो लोगों ने इस वारदात को अंजाम दिया है। बुधनी टीआई संध्या मिश्रा ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर इस घटना को अंजाम देने वाले अज्ञात को पहचानने का प्रयास किया जा रहा है। इस मामले की जांच की जा रही।

Dakhal News

Dakhal News 23 May 2020


datia, Severe fire, Grocery Store ,caused loss of millions

दतिया। दतिया जिला मुख्यालय स्थित पुराने कलेक्ट्रेट के सामने शुक्रवार सुबह एक किराना स्टोर में आग लग गई। देखते ही देखते आग तेजी से फैली और पूरे स्टोर को अपनी चपेट में ले लिया। सूचना मिलन पर दमकल की गाडिय़ां मौके पर पहुंची और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। बताया जा रहा है कि इस आगजनी में लाखों का सामान जलकर खाक हो गया। पुलिस ने मामले को जांच में लिया है।जानकारी के मुताबिक, शहर के पुराने कलेक्ट्रट के सामने स्थित हिन्दुजा फैमिली मार्ट नामक किराना स्टोर में शुक्रवार सुबह आसपास के लोगों ने धुआं उठते देखा और तत्काल स्टोर के मालिक के साथ ही पुलिस और फायर बिग्रेड को सूचना दी। इसके बाद स्थानीय लोग स्वयं आग बुझाने में जुट गए। कुछ ही देर में दमकल की गाडिय़ां मौके पर पहुंच गई और आग पर काबू पाया लिया। बताया जा रहा है कि स्टोर में आग शॉर्ट सर्किट होने की वजह से लगी थी। गनीमत रही कि समय रहते आग पर काबू पा लिया, वरना बड़ा हादसा होने की संभावना थी, क्योंकि आसपास काफी दुकानें और बैंक शाखा भी है। इस आगजनी में स्टोर में रखा लाखों का सामान पूरी तरह जल गया। इस हादसे में कितना नुकसान हुआ है, इसका आंकलन किया जा रहा है। 

Dakhal News

Dakhal News 22 May 2020


bhopal, INTUC ,protests ,against change, labor laws

भोपाल। मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश सहित अन्य राज्यों में श्रम कानूनों में श्रमिकों के हितों के खिलाफ किए गए बदलावों के विरोध में केन्द्रीय श्रम संगठनों के संयुक्त मोर्चे ने शुक्रवार को देशव्यापी अनशन व विरोध प्रदर्शन किया। भोपाल में इंटक से राष्ट्रीय संगठन मंत्री बी.डी. गौतम व के.के. नेमा के नेतृत्व में विरोध दिवस मनाया गया, इस अवसर पर कर्मचारी आयोग के सदस्य वीरेन्द्र खोंगल भी उपस्थित थे।    उल्लेखनीय है कि केन्द्रीय श्रमिक संगठनों के संयुक्त मोर्चे में इंटक, सीटू, एचएमएस, एटक, सीएआईटीयूसी, टीयूसीसी, सेवा, एआईसीटीयू , बैंक, बीमा सहित विभिन्न सेक्टर के फेडरेशन व एशोसिएशन शामिल हैं। संयुक्त मोर्चे की कॉरडिनेशन कमेटी के चेयरमेन व इंटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. जी. संजीवा रेड्डी के आव्हान पर आज संयुक्त मोर्चे की सभी यूनियनों व फेडरेशनों ने राज्य, जिला, तहसील व संस्थानों पर एक दिवसीय उपवास व प्रदर्शन कर केन्द्र व राज्य सरकारों द्वारा श्रम कानूनों में किए गए बदलाव का विरोध कर उन्हें वापस लेने की मांग की। यह जानकारी इंटक के राष्ट्रीय संगठन मंत्री बी.डी. गौतम ने दी ।    इंटक के राष्ट्रीय संगठन मंत्री बी.डी. गौतम ने बताया कि संयुक्त मोर्चे के चैयरमेन इंटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ.जी.संजीवा रेड्डी के निर्देशानुसार कोरोना संकट के चलते देश व प्रदेश में लॉकडाउन के कारण सरकार व जिला प्रशासन द्वारा जो आदेश, नियम व दिशा निर्देश जारी किए गए हैं उनका पूर्णत: पालन करते हुए अनुशासन के साथ यूनियन ऑफिस या जो जहाँ है वहीं पर अथवा लॉक डाउन में घर पर है तो वहीं पर काली पट्टी लगाकर, उपवास रखकर विरोध प्रकट किया गया। सरकार व प्रशासन के निर्देशानुसार चेहरे पर मास्क अनिवार्यत: लगाया गया है। इसी प्रकार सेनेटाइजेशन, सोशल डिस्टेंसिंग व अन्य निर्धारित मापदंडों तथा सरकार के निर्देशों का पालन करते हुए जो जहां है वहीं पर श्रम कानूनों में श्रमिकों के हितों के विपरीत किये गए बदलावों का विरोध करते हुए इन्हें वापस लेने की मांग की गई।  

Dakhal News

Dakhal News 22 May 2020


bhopal, Weather update,  remain hot and dry, Madhya Pradesh, this week

भोपाल। यह प्री-मॉनसून सीजन मध्य प्रदेश में बारिश के हिसाब से अब तक बहुत अच्छा रहा है। 1 मार्च से 22 मई तक पश्चिमी मध्य प्रदेश में सामान्य से 162 प्रतिशत ज़्यादा बारिश रिकॉर्ड की गई है। जबकि पूर्वी मध्य प्रदेश में सामान्य से 284 प्रतिशत अधिक बारिश हो चुकी है।    इस सप्ताह यानि 22 से 28 मई के बीच पूरे सप्ताह मध्य प्रदेश में मौसम गर्म तथा शुष्क ही बने रहने संभावना है। दिन के तापमान बढऩे के कारण ही मध्य प्रदेश के कई जिलों में लू का प्रकोप दिखाई देगा। कई स्थानों पर तापमान 45-46 डिग्री सेल्सियस के भी पार चले जाने की आशंका है। खरगौन, देवास, धार, रतलाम, उज्जैन जैसे दक्षिण-पश्चिमी जिलों में अपेक्षाकृत गर्मी अधिक होगी। यही वह क्षेत्र होंगे जहां तापमान 45 डिग्री या उससे भी ऊपर पहुँच सकता है। जबकि उत्तरी भागों में गुना, ग्वालियर, दतिया, सागर, सतना और पन्ना तथा आसपास के हिस्सों में पारा 42-43 डिग्री के करीब रहेगा।  

Dakhal News

Dakhal News 22 May 2020


bhopal, mercury will rise , Nautpa, after 7 days, intense heat

भोपाल। सूर्य के 25 मई को रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करते ही नौतपा की शुरुआत हो जाएगी। मध्य प्रदेश में हर साल की तरह इस बार भी नौतपा में पारा खूब चढ़ेगा। नौतपा के नौ दिनों में से सात दिनों में तापमान में इजाफा होने के साथ लू चलने के भी आसार हैं। नौतपा के 7 दिनों में सूरज के तीखे तेवर से लोगों को तेज गर्मी का अहसास होगा तो वहीं आखिरी दो दिनों में सूरज के तेवर थोड़े से नरम नजर आएंगे।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला का कहना है कि मध्य प्रदेश में अभी मौसम पूरी तरह से शुष्क है।  किसी भी जिले में ना तो बारिश के आसार हैं और ना ही तेज हवाओं के साथ हल्की बूंदाबांदी की आशंका है। हालांकि एक वेस्टर्न डिस्टरबेंस 22 मई से बन रहा है लेकिन इसका असर प्रदेश में नहीं होगा।   नौतपा की शुरुआत से पहले ही चढ़ा पारा प्रदेश भर में 16 मई तक लोगों को तीखी गर्मी से राहत थी लेकिन 17 मई के बाद तापमान में इजाफा हुआ। प्रदेश में इन दिनों 26 जिलों में तापमान 41 डिग्री के पार पहुंच गया है तो वहीं नौतपा में तापमान उच्च जिलों में 45 डिग्री के पार पहुंचने के आसार हैं।   निमाड़ में चल रही है लू मई के महीने में कई सालों बाद इस साल यह मौका रहा जब लोगों को लू से राहत मिली है पर तापमान बढऩे के साथ दो दिनों से निमाड़ में लू चल रही है। खरगोन के साथ पूरे निमाड़ में तापमान 45 डिग्री रिकॉर्ड होने के साथ गर्म हवा थपेड़े (लू )चले। नौतपा में प्रदेश भर के ज्यादातर जिले लू की चपेट में रहेंगे। मालवा, निमाड़, चंबल के जिलों में तापमान 45 डिग्री के पार पहुँचने के आसार है।   सात दिन खूब तपने के बाद 2 दिन मिलेगी राहत नौतपा पर ग्रह नक्षत्र का प्रभाव रहता है। मौसम वैज्ञानिक और ज्योतिषविद का कहना है कि रोहणी नक्षत्र में सूर्य के रहते 9 दिनों तक गर्मी पड़ती है। रोहिणी नक्षत्र का स्वामी चंद्रमा है, जो सूर्य के प्रभाव में आ जाता है। गुरु और शनि की वक्री चाल के चलते नौतपा इस बार खूब तपेगा लेकिन शुरुआती 7 दिनों में पारा चढऩे से लोगों को तेज गर्मी का एहसास होगा। 30 मई को शुक्र के अपनी ही राशि वृषभ में अस्त होने के कारण गर्मी में कमी आ जाएगी। नौतपा के आखिरी दो दिनों में तेज हवा और आंधी चलने या बारिश होने के भी आसार नजर आ रहे हैं।    खरगोन में तापमान 45 डिग्री के पार पहुंचने के साथ चली लू प्रदेश भर में खरगोन में पारा खूब चढ़ा है। खरगोन में तापमान 45 डिग्री के पार पहुँचने से लोगों को झुलसाने वाली गर्मी का एहसास हो रहा है। रायसेन 43.6डिग्री, रतलाम, शाजापुर में 43.5 डिग्री, खंडवा 43.1 डिग्री, नोगांव-दमोह 43 डिग्री, गुना 42.8 डिग्री, ग्वालियर-राजगढ़ 42.7 डिग्री, उज्जैन-सागर 42.6डिग्री, खजुराहो-42.2डिग्री, भोपाल-होशंगाबाद 42डिग्री, टीकमगढ़ 41.7 डिग्री, जबलपुर 41.3डिग्री, सीधी-उमरिया-मंडला 41.4 डिग्री, उमरिया 41.1डिग्री,सतना 40.7 डिग्री, छिंदवाड़ा-40.6डिग्री, बैतूल-40.2 डिग्री तापमान दर्ज किया गया।   क्या है नौतपा सूर्य घूमते हुए मध्य भारत के ऊपर आ जाता है और जब यह कर्क रेखा के पास पहुंच जाता है तब 90 डिग्री की पोजीशन में होता है जिससे किरणें सीधी पृथ्वी पर पड़ती है। इसी कारण तापमान बढ़ जाता है। हालांकि मई के दिनों में दिन बड़े होते हैं और रेडिएशन भी ज्यादा होता है। यही वजह है कि पृथ्वी इन दोनों भट्टी की तरह तपती है। पृथ्वी के तपने के कारण ही नौतपा में लोगों को भीषण गर्मी का एहसास होता है।    तेज हवाओं के साथ हल्की बारिश प्री मॉनसून एक्टिविटी मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला का कहना है कि प्रदेश भर में अभी मौसम पूरी तरह से शुष्क है यानी किसी भी जिले में ना तो बारिश के आसार हैं और ना ही तेज हवाओं के साथ हल्की बूंदाबांदी की आशंका है। हालांकि एक वेस्टर्न डिस्टरबेंस 22 मई से बन रहा है लेकिन इसका असर मध्यप्रदेश में नहीं होगा। प्रदेश भर में तापमान में इजाफा होगा। नौतपा के पहले बूंदाबांदी और बारिश होने के आसार नहीं हैं। 10 से 17 मई के बीच जिलों में होने वाली तेज हवाओं के साथ हल्की बूंदाबांदी और बारिश प्री मॉनसून एक्टिविटी ही है। मानसून के सक्रिय होने से पहले इस तरह की प्री मॉनसून एक्टिविटीज देखी जाती है।

Dakhal News

Dakhal News 22 May 2020


bhopal, indore, More than 5000 industrialists, Madhya Pradesh ,staged online sit-in

इंदौर/भोपाल। मध्‍य प्रदेश में कोरोना संकट के बीच लॉकडाडन के चलते पिछले दो माह से उद्योग लगभग बंद हैं लेकिन उसके बाद भी भारी-भरकम बिजली बिल देखकर सभी उद्योगपति परेशान हैं। अब लॉकडाउन के बीच गुरुवार को मध्‍य प्रदेश के पांच हजार से अधिक छोटे व मध्यम उद्योगपति राज्‍य सरकार के खिलाफ ऑनलाइन धरना देने बैठ गए। इस ऑनलाइन धरने में एसोसिएशन ऑफ इंडस्ट्रीज मध्‍य प्रदेश से जुड़े लगभग सभी उद्योगपति हाथों में बिजली बिल में सुधार सहित अन्य मांगे लिखी तख्तियां लेकर शामिल हुए।  पूरे मामले को लेकर एसोसिएशन ऑफ इंडस्ट्रीज मप्र (एआईएमपी) के अध्यक्ष प्रमोद डफरिया का कहना है कि हमारे संगठन ने आज से यह धरना शुरू किया है लेकिन सरकार यदि नहीं सुनेगी तो यह धरना लम्‍बा चलेगा। उन्‍होंने कहा कि कोरोना काल में पिछले दो माह से प्रदेश भर में लगभग अधिकांश फैक्ट्रियां बंद है, काम करने के लिए मजदूर हैं नहीं, कहीं कुछ काम हुआ नहीं है, इसके बाद भी उद्योगपतियों को बिजली विभाग ने लाखों रुपये के बिल थमा दिए हैं।  उनका यह भी कहना था कि राज्‍य के उद्योगपतियों की आर्थ‍िक हालत पहले से ही काम बंद होने के कारण खराब चल रही है, फिर भी केंद्र सरकार एवं राज्‍य की शिवराज सरकार के निर्देशों का पालन करते हुए उद्योगपति और व्‍यापारियों ने मजदूरों एवं कर्मचारियों को वेतन दिया है। डफरिया का कहना है कि ऐसे वक्‍त में सरकार को हमारी भरपूर सहायता करनी चाहिए, नहीं तो प्रदेश में उद्योग चलाना मुश्किल होगा।   

Dakhal News

Dakhal News 21 May 2020


indore,Online booking ,can start , June 1 ,selected cities

इन्दौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर से आगामी एक जून से कुछ चुनिंदा शहरों के लिए घरेलू उड़ानें शुरू हो सकती हैं। हालांकि अभी एयरपोर्ट प्रबंधन को इस संबंध में कोई आधिकारिक आदेश प्राप्त नहीं हुए हैं, लेकिन कुछ शहरों के लिए ऑनलाइन बुकिंग शुरू कर दी गई है। एयरपोर्ट प्रबंधन ने एक जून से घरेलू उड़ाने शुरू करने की पूरी तैयारी कर ली है और कर्मचारियों को फ्लाइट ऑपरेशन शुरू होने के बाद कैसे काम करने है, इसका प्रशिक्षण दिया जा रहा है।गौरतलब है कि उड्यन मंत्रालय ने 25 मई से घरेलू उड़ान शुरू करने की घोषणा की है। इस संबंध में इंदौर एयरपोर्ट प्रबंधन का कहना है कि अभी उसे इस संबंध में आधिकारिक आदेश नहीं मिला है, लेकिन यहां एक जून से कुछ चुनिंदा शहरों के लिए ऑनलाइन बुकिंग शुरू की गई है। मेक माय ट्रिप, अन्य ट्रेवल एप और एयरलाइंस द्वारा इन्दौर से मुंबई, दिल्ली, बंैगलुरू, हैदराबाद, गोवा, अहमदाबाद के लिए टिकट बुक करा सकते हैं। इसके अलावा एयरलाइंस के एप भी बुकिंग की जा रही है। एयरपोर्ट प्रबंधन के अनुसार, उड्डयन मंत्रालय ने आदेश जारी किया है। इसके बाद यहां उड़ाने शुरू करने की तैयारियां की गई हैं और कर्मचारियों को लगातार प्रशिक्षण दिया जा रहा है। जल्द ही आधिकारिक आदेश भी आ जाएगा। इसके बाद यहां एक जून से कुछ चुनिंदा शहरों के लिए उड़ानें शुरू की जाएंगी। इसके लिए बुकिंग प्रारंभ कर दी गई है।

Dakhal News

Dakhal News 21 May 2020


indore, 59 new corona cases,died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है। यहां फिर 59 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 2774 हो गई है। वहीं, दो लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। इन्हें मिलाकर अब तक इंदौर में कोरोना से 107 लोगों की मौत हो चुकी है।इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने गुरुवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा बुधवार को देर रात 644 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की, जिसमें 581 सेम्पल निगेटिव और 59 सेम्पल पॉजिटिव पाए गए हैं। वहीं, दो लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। मृतकों में एक 62 और एक 57 वर्षीय पुरुष शामिल है। नये मामलों के साथ अब इंदौर में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 2774 हो गई है, जबकि मरने वालों की संख्या 107 पहुंच गई है। उन्होंने बताया कि इंदौर में 1213 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं। अब शहर में एक्टिव मामले 1454 हैं, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 21 May 2020


bhopal, Construction, two bridges,repair of one bridge,  892 lakhs,Gwalior division

भोपाल।  ग्वालियर संभाग में 892 लाख 26 हजार लागत से दो नदी पुलों का निर्माण और एक पुल की मरम्मत करने के कार्य की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। लोक निर्माण विभाग सेतु निर्माण संभाग द्वारा पुल निर्माण और मरम्मत करने वाली एजेन्सियों का निर्धारण किया जा रहा है। सेतु निर्माण संभाग ग्वालियर द्वारा जानकारी दी गई कि अशोकनगर जिले की मुगावली तहसील में बम्होरी-खाकलोन मार्ग में वेलन नदी पर पहुँच मार्ग सहित उच्चस्तरीय पुल का निर्माण 448 लाख 9 हजार रुपये की लागत से होगा। शिवपुरी जिले के ग्राम उमरीकला के पास मनपुरा खोड मार्ग से महुअर नदी पर उच्चस्तरीय पुल का निर्माण 439 लाख 72 हजार रुपये से किया जायगा। ग्वालियर में छेवरा छिरेटा मार्ग में नोन नदी के जलमग्नीय पुल के विशेष मरम्मत के कार्य को 4 लाख 45 हजार रुपये से किया जाएगा। यह सभी कार्य निर्धारित समय-सीमा में पूरा करवाये जायगें।

Dakhal News

Dakhal News 19 May 2020


bhopal, Corona havoc, found 42 korona positive,Tuesday morning

भोपाल। शहर में कोरोना पॉजिटिव रोगियों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। यहां पिछले दो हफ्तों से ज्यादा तेजी देखने को मिल रही है। पिछले दो हफ्तों से भोपाल में रोज़ाना 30 से 40 के बीच कोरोना संक्रमित पाए जा रहें हैं।  सोमवार देर रात तक आई रिपोर्ट में कुल 38 नए मरीज मिले थे। जिसके बाद मंगलवार सुबह 42 लोगों को कोरोना पॉजिटव पाया गया है।    राजधानी भोपाल में मंगलवार सुबह 42 नए कोरोना पॉजीटिव पाए गए, जिसके बाद अब कोरोना से संक्रिमितों की कुल संख्या 1072 हो गई है। वहीं राजधानी में अब तक 39 लोग कोरोना से दम तोड़ चुके हैं। राजधानी में बढ़ते मामलों के साथ संक्रमण से ठीक होने के मामले भी लगातार बढ़ रहें है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि बीते सोमवार को अस्पतालों से 28 कोरोना संक्रमित मरीज डिस्चार्ज हुए है। वहीं भोपाल में अब तक एम्स, चिरायु और बंसल अस्पताल से कुल 667 लोग कोरोना से जंग जीतकर घर जा चुके हैं।    सीएमएचओ ने बताया कि मंगलवार सुबह पाए गए सभी सभी कोरोना संक्रमितों की कॉन्ट्रेक्ट हिस्ट्री निकाली जा रही है। सभी संक्रमित लोगों को हॉस्पिटल में शिफ्ट किया गया है। वहीं सभी के घरों को एपिक सेन्टर घोषित कर घर के एक किमी के दायरे को निषिद्ध क्षेत्र घोषित कर दिया गया है।

Dakhal News

Dakhal News 19 May 2020


jabalpur, 16 shops,ancient,Tripura Sundari temple, burnt down

जबलपुर। मध्यप्रदेश की संस्कारधानी जबलपुर के विश्व प्रसिद्ध त्रिपुर सुंदरी मंदिर के पास स्थित पूजा की दुकानों में मंगलवार को तडक़े भीषण आग लग गई। देखते ही देखते आग तेजी से फैल गई और 16 दुकानों को अपनी चपेट में ले लिया। सूचना मिलने पर पुलिस और दमकल की गाडिय़ां मौके पर पहुंची और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया, लेकिन तब तक दुकानों में रखी पूजन सामग्री जलकर खाक हो गई। बताया जा रहा है कि इस आगजनी में लाखों का नुकसान हो गया। जानकारी के अनुसार, त्रिपुर सुंदरी मंदिर के सेवकों ने मंगलवार को तडक़े करीब 3.30 बजे मंदिर के पास स्थित पूजन सामग्रियों की दुकान से धुआं उठते देखा और तत्काल फायर ब्रिगेड व पुलिस को सूचना दी। जब तक पुलिस और दमकल की गाडिय़ां मौके पर पहुंची, तब तक आग ने विकराल रूप ले लिया और दुकानें धू-धू कर जल रही थी। जबलपुर नगर निगम और भेड़ाघाट नगरपालिका की दमकलों ने तत्काल आग बुझाना शुरू किया और कड़ी मशक्कत के बाद करीब दो घंटे में आग पर काबू पाया। बताया जा रहा है कि आगजनी की इस घटना में पूजन-सामग्री की 16 दुकानें पूरी तरह जल गईं। दुकानें कच्ची होने के कारण आग तेजी से फैली। दुकान संचालकों के मुताबिक, चैत्र नवरात्रि के लिए पहले ही दुकानों में स्टॉक किया गया था, जो कि लॉकडाउन के चलते बिक नहीं पाया। दुकानों में रखे सूखे नारियल, कपड़ा, चुनरी समेत लाखों का सामान इस आगजनी में जलकर खाक हो गया। जानकारी मिलने पर प्रशासनिक अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने दुकान संचालकों को मदद का आश्वासन दिया है। इस आगजनी में कितना नुकसान हुआ है, इसका आकलन किया जा रहा है। पुलिस ने भी मामले की जांच शुरू कर दी है।गौरतलब है कि जबलपुर के प्रसद्धि त्रिपुर सुंदरी मंदिर में चैत्र नवरात्र के समय लाखों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचते हैं। दुकान संचालकों को उम्मीद थी कि लॉकडाउन खुलने के बाद बड़ी संख्या में भीड़ उमड़ेगी, इसीलिए उन्होंने दुकानों में माल भर रखा था। स्थानीय लोगों का कहना है कि दुकान संचालकों ने चैत्र नवरात्र को लेकर अपनी दुकानों में कर्ज लेकर माल भरा था। पहले कोरोना वायरस के लॉकडाउन ने दुकानदारों की कमर तोड़ दी और आग में रखा सामान भी पूरा जल गया। इससे दुकान संचालकों का गुजर-बसर करना मुश्किल हो गया है। दुकान संचालकों ने जिला प्रशासन से मुआवजे की मांग की है।

Dakhal News

Dakhal News 19 May 2020


vidisha, brothers returning,Indore, truck killed, one killed and injured

विदिशा। लॉकडाउन के दौरान इंदौर से अपने घर जा रहे दो भाई रविवार रात हादसे के शिकार हो गए। उनकी बाइक को एक ट्रक ने टक्कर मार दी। हादसे में एक भाई की मौत हो गई, जबकि दूसरा घायल है।    प्राप्त जानकारी के अनुसार विदिशा जिले में नेशनल हाईवे 146 पर स्थित कुआं खेड़ी के पास अज्ञात ट्रक की टक्कर से दो सगे भाई गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें जिला अस्पताल पहुंचाया गया। गंभीर रूप से घायल 25 वर्षीय विजय केवट को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया जबकि उसके भाई गुलाब की हालत गंभीर बताई जा रही है। घटना रविवार रात करीब 2:30 बजे की बताई जा रही है। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार दोनों भाई चित्रकूट जिला थाना राजापुर के ग्राम बिहरवा निवासी हैं और इंदौर में काम करते थे। लॉकडाउन के कारण बाइक से अपने गांव जा रहे थे।  पुलिस ने उनके परिजनों को इस हादसे की सूचना दे दी है।  

Dakhal News

Dakhal News 18 May 2020


bhopal, 250 deaths , reported, MP Corona ,121 new cases,  number of infected, 5098.

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यहां अब 121 नये मामले सामने आने के बाद कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या पांच हजार के पार पहुंचकर 5098 हो गई है। वहीं, दो लोगों की मौत की पुष्टि होने के बाद यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 250 पहुंच गई है। इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने सोमवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा रविवार को देर रात 1511 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई, जिसमें 95 रिपोर्ट पॉजिटिव और शेष रिपोर्ट निगेटिव आई हैं। इन नये मामलों के साथ इंदौर में अब इंदौर में कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 2565 तक जा पहुंची है। वहीं, एक 71 वर्षीय पुरुष की मौत की पुष्टि हुई है। इसके बाद इंदौर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 101 हो गई है।इसी तरह उज्जैन में भी रविवार देर रात आई रिपोर्ट में कोरोना के 12 नए मामले सामने आए हैं। इन्हें मिलाकर अब जिले में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 341 हो गई है। वहीं, कोरोना संक्रमण से एक 59 साल की व्यक्ति की मौत की पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 48 हो गई है। इसके अलावा, सोमवार सुबह धार में 10, रायसेन में दो राजगढ़ में एक और देवास में एक कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं।इन नये 121 मामलों के साथ राज्य में अब कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 4977 से बढक़र 5098 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 2565, भोपाल 992, उज्जैन 341, जबलपुर 175, बुरहानपुर 149, खरगौन 99, धार 106, खंडवा 96, रायसेन 67, मंदसौर 60, देवास 63, नीमच 50, होशंगाबाद 37, ग्वालियर 58, बड़वानी 29, मुरैना 29,  रतलाम 28, आगरमालवा 13,  विदिशा 15, सागर 19, शाजापुर 08, भिण्ड 17, छिंदवाड़ा 05, सतना 08, श्योपुर 04, सीधी 04, अलीराजपुर 03, अनूपपुर 03, शहडोल 03, हरदा 03,  शिवपुरी 03, टीमकगढ़ 05, रीवा 11, डिंडौरी 02, बैतूल 03, अशोकनगर 02, पन्ना 02, झाबुआ 07. सीहोर 05, गुना 01, मंडला 01, सिवनी 01, दतिया 03 दमोह 01 राजगढ़ 01, और उमरिया का एक मरीज शामिल है। इंदौर और उज्जैन में हुई एक-एक मौतों के बाद मध्यप्रदेश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 248 से बढक़र 250 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 101, भोपाल 38, उज्जैन 48, खरगौन 08, देवास 07, बुरहानपुर 10, धार, 02, जबलपुर 08, खंडवा 08, रायसेन 03,  छिंदवाड़ा 01, मंदसौर 05, होशंगाबाद 03,  नीमच 01, अशोकनगर 01, आगर मालवा 01, सतना 01, सागर 01, ग्वालियर 01 और शाजापुर का एक व्यक्ति शामिल है।  

Dakhal News

Dakhal News 18 May 2020


gwalior, Fierce fire, three-storey building, kills seven, including three children

ग्वालियर। शहर के इंदरगंज रोशनी रोड पर स्थित एक तीन मंजिला इमारत में सोमवार सुबह आग लग गई। देखते ही देखते आग तेजी से फैल गई और दुकान के साथ ही ऊपरी मंजिल के घरों को अपनी चपेट में ले लिया। इस अग्निकांड में अग्रवाल (गोयल) परिवार के सात लोगों की मौत हो गई। मृतकों में तीन बच्चे और चार महिलाएं शामिल हैं। इसके अलावा दो अन्य महिलाएं बुरी तरह झुलस गई, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटनास्थल पर जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक, नगर निगम कमिश्नर सहित प्रशासन के आला अधिकारी और राजनेता भी पहुंच गए। घटना इंदरगंज थाने से महज 100 मीट की दूरी पर हुई। ग्वालियर के इंदरगंज थाना इलाके में रोशनी घर मार्ग पर अग्रवाल परिवार का पेंट कारोबार है। तीन मंजिला बिल्डिंग में नीचे दुकान है और तीन भाइयों हरिओम, जगमोहन और जयकिशन उर्फ लल्ला गोयल  के परिवार ऊपर रहते हैं। सोमवार की सुबह दुकान में शार्ट सर्किट से आग लगी और देखते ही देखते आग ने विकराल रूप लेकर पूरे तीन मंजिला बिल्डिंग को अपनी चपेट में ले लिया। बिल्डिंग में अग्रवाल (गोयल) परिवार के कुल 16 सदस्य थे, जो कि आग की चपेट में आकर बुरी तरह झुलस गए। सूचना मिलते ही या इंदरगंज थाना पुलिस और फायर ब्रिगेड का अमला मौके पर पहुंच गया और आग बुझाना शुरू करते हुए मकान में फंसे लोगों को बाहर निकालकर अस्पताल पहुंचाया, लेकिन तब तक सात लोगों की जिंदा जलकर मौत हो चुकी थी। एडिशनल एसपी सतेन्द्र सिंह तोमर ने इस आगजनी में सात लोगों की मरने की पुष्टि की है। मृतकों में तीन बच्चे और चार महिलाएं शामिल हैं। मृतकों में चार वर्षीय आराध्या पुत्री सुमित गोयल, 10 वर्षीय आर्यन पुत्र साकेत गोयल, 13 वर्षीय शुभी पुत्री श्याम गोयल, 37 वर्षीय आरती पत्नी श्याम गोयल, 60 वर्षीय शकुंतला पत्नी जय किशन गोयल, 33 वर्षीय प्रियंका पत्नी साकेत गोयल और 55 वर्षीय मधु पत्नी हरिओम गोयल शामिल हैं।जानकारी गलते ही कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, एसपी नवनीत भसीन समेत आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए थे और रेस्क्यू ऑपरेशन पर नजर रखी। वहीं, सांसद विवेक शेजवलकर, पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल, चेम्बर अध्यक्ष विजय आदि जनप्रतिनिधियों ने भी मौके पर पहुंचकर मामले की जानकारी ली। घनी आबादी और संकरी गली में बिल्डिंग होने के कारण आग पर काबू पाने में दमकलकर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी। फिलहाल आग पर काबू पा लिया गया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

Dakhal News

Dakhal News 18 May 2020


bhopal,Number,20 new positive, infections  Corona found,920

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यहां फिर नये पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इसके साथ ही यहां कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 920 हो गई है, जबकि इस महामारी से भोपाल में अब तक 35 लोगों की  मौत हो चुकी है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि यहां स्वस्थ हो चुके मरीजों की संख्या एक्टिव मामलों से काफी अधिक है।भोपाल के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. प्रभाकर तिवारी ने बताया कि शुक्रवार सुबह एम्स से जारी हुई रिपोर्ट में 20 नए कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है। इन्हें मिलाकर अब भोपाल में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 920 हो गई है। इनमें से अब तक 529 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं और उन्हें विभिन्न अस्पतालों से डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब भोपाल में एक्टिव मरीजों की संख्या 356 है, जिनका उपचार जारी है। नये संक्रमित मरीजों के क्षेत्रों को कंटेन्मेंट एरिया घोषित कर दिया गया है और उनकी कान्टेक्ट हिस्टी निकाली जा रही है।

Dakhal News

Dakhal News 15 May 2020


bhopal, Planets ,do not have reverse gear. Sarika, secret of the planets ,retrograde

भोपाल। कोरोना संकट काल में एस्ट्रोलॉजी से संबंधित खबरें भी मीडिया की सुर्खियां बन रही हैं। इनमें ग्रहों के वक्री होने की बात जानकर आम लोगों को ग्रहों के रिवर्स गियर में चलने का अंदाज लगता है, जबकि सामान्य विद्यार्थी भी जानता है कि सोलरसिस्टम में सभी प्लेनेट सूर्य की परिक्रमा एक ही दिशा में चलते हुए करते रहते हैं। ग्रहों में रिवर्स गियर नहीं होता है। यह जानकारी राष्ट्रीय अवार्ड प्राप्त भोपाल की विज्ञान प्रसारक सारिका घारू ने शुक्रवार को मीडिया को दी।उन्होंने एक मॉडल के माध्यम से ग्रहों का वक्री का रहस्य समझाते हुए बताया कि सभी ग्रह अपने ही पथ पर चलते हुए सूर्य की परिक्रमा करते हैं। आकाश में कोई नगर, पहाड़, पेड़ बगैरह तो है नहीं, जिससे पता चल सके कि कौन सा ग्रह किस पहाड़ या नगर के पास है। इसके लिये उनके पीछे स्थाई रूप से दिखने वाले राशि तारामंडल को आधार माना जाता है, जिसमें यह देखा जाता है कि कोई ग्रह इस समय किस तारामंडल के सामने है। सारिका ने बताया कि परिक्रमा करते हुए जब पड़ौसी ग्रह पृथ्वी के निकट आते हैं तो पृथ्वी की गति अधिक होने से उनके बगल में स्थित ये ग्रह पीछे छूटते नजर आते हैं अर्थात उनके बैकग्राउंड में वह तारामंडल दिखने लगता है, जो कुछ दिन पहले देखा गया था। इससे लगता है कि ग्रह वापस पुराने तारामंडल में जा रहा है। उन्होंने बताया कि सूर्य की परिक्रमा करते हुए यह ग्रह अंडाकार पथ पर पृथ्वी के निकट आते हैं, तब इनके वक्री होने या उल्टे चलने का आभास होता है। एस्ट्रोलॉजी में शुक्र, शनि और बृहस्पति इसी सप्ताह वक्री बताये गये हैं। इसका कारण यह है कि अपनी राह में चलते समय पृथ्वी की मुलाकात इस समय इन ग्रहों से होने जा रही है और इनके वक्री हो जाने की बात के डर का आभास हो रहा है। उन्होंने कहा कि ग्रहों के उल्टे चलने जैसी बातों से डरने की आवश्यकता नहीं है। 

Dakhal News

Dakhal News 15 May 2020


Guna, road collision,second consecutive day, one killed ,traveltrack collision

गुना। प्रदेश के गुना जिला मुख्यालय पर गुरुवार को तडक़े एक बड़ा सडक़ हादसा हुआ था। महाराष्ट्र से श्रमिकों को लेकर जा रहे एक ट्रक और बस के बीच जोरदार टक्कर में नौ लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 50 से अधिक घायल हो गए थे। यहां बीती रात फिर एक बड़ा सडक़ हादसा हो गया। बता जा रहा है कि महाराष्ट्र के पुणे से मजदूरों को एक ट्रक उत्तराखंड के बागेश्वर जा रहा था। इसी दौरान गुना जिले के राघौगढ़ थाना क्षेत्र में एक टेम्पो ट्रैवलर वाहन (बड़ी जीप) ने पीछे से ट्रक को टक्कर मार दी। इस हादसे में एक मजदूर की मौत हो गई, जबकि आठ घायल हो गए। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले को जांच में लिया है। राघौगढ़ थाना पुलिस के अनुसार, राष्ट्रीय राजमार्ग-46 पर क्षेत्र के ग्राम आवन के पास गुरुवार को देर रात महराष्ट्र के पुणे से मजदूरों को लेकर उत्तराखंड के बागेश्वर जा रहे एक ट्रक को टेम्पो ट्रैवलर वाहन ने पीछे से जोरदार टक्कर मार दी। इस हादसे में ट्रक में सवाल एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि आठ मजदूर घायल हो गए। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को राघौगढ़ के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अस्पताल पहुंचाया। वहीं, मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू की। मृतक का नाम नंदन सिंह निवासी बागेश्वर (उत्तराखंड) बताया गया है। वहीं, दो घायल दशरथ सिंह और विमला देवी को गंभीर हालत में जिला अस्पताल रैफर किया गया है। बताया गया है कि सभी मजदूर पुणे के एक होटल में काम करते थे और लॉकडाउन के चलते वे ट्रक में सवार होकर अपने गांव बागेश्वर जा रहे थे।

Dakhal News

Dakhal News 15 May 2020


Special train ,leave ,Indore to Rewa ,tonight

इंदौर। इंदौर से रीवा के लिए विशेष ट्रेन बुधवार 13 मई को रात 9:00 बजे इंदौर रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म क्रमांक 1 से रवाना होगी। इसके लिए रेलवे की ओर से सभी तैयारियां कर ली गई हैं।    रेलवे के अनुसार रीवा जाने वाली स्पेशल ट्रेन में कुल 22 कोच होंगे। इनमें से 17 स्लीपर कोच, 3 जनरल कोच और 2 पॉवर कोच रहेंगे। इस स्पेशल ट्रेन का रेक बुधवार सुबह रतलाम पहुंच चुका है। दोपहर बाद यह रेक इंदौर पहुंचेगा। इंदौर में इस रैक को सैनिटाइज किया जाएगा। रेल प्रशासन ने स्टेशन पर गहमागहमी न होने देने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए व्यापक व्यवस्थाएं की हैं। इसके लिए रेलवे स्टेशन पर यात्रियों के अलावा अन्य किसी को भी प्रवेश नहीं दिया जाएगा। यात्रियों को छोड़ने के लिए स्टेशन पर अनावश्यक रूप से आने वालों को प्रवेश की अनुमति नहीं रहेगी। गौरतलब है कि हालत ही में गुजरात के भुज स्टेशन पर विशेष ट्रेन पर यात्रियों को छोड़ने के लिए भारी भीड़ जमा होने से अव्यवस्था हो गई थी। इसे ध्यान में रखते हुए इंदौर में रेल विभाग विशेष सतर्कता बरत रहा है।  

Dakhal News

Dakhal News 13 May 2020


shivpuri, Eight injured, collision ,between truck and bus, filled laborers

शिवपुरी। जिले के बदरवास थाना क्षेत्र अंतर्गत एबी रोड फोरलेन पर स्थित ग्राम बरखेड़ा के पास बुधवार को सुबह मजदूरों को ले जा रही एक बस सडक़ किनारे खड़े एक ट्रक से टकरा गई। बताया जा रहा है कि ट्रक में भी मजदूर भरे हुए थे और बस कोल्हापुर से मजदूरों को लेकर शिवपुरी आ रही थी। इसी दौरान यह हादसा हो गया। इस हादसे में आठ मजदूर घायल हो गए। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और एम्बुलेंस के माध्यम से घायलों को बदरवास के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया, जहां घायलों की हालत खतरे से बाहर बताई गई है।बदरवास थाना पुलिस के अनुसार, कोल्हापुर से मजदूरों को एक बस शिवपुरी आ रही थी। वहीं, ट्रक शिवपुरी से मजदूरों को लेकर भिण्ड जा रहा था। बस में 30 मजदूर सवार थे, जबकि ट्रक में 40 मजदूर थे। ट्रक बुधवार को सुबह बरखेड़ा के पास खड़ा हुआ था। प्रत्यक्षदर्शियों ने पुलिस को बताया कि बस चालक को नींद आ रही थी, लेकिन उसे सोने नहीं दिया गया। चालक को नींद की झपकी आई और बस सडक़ किनारे खड़े ट्रक से टकरा गई। इस हादसे में आठ मजदूर घायल हुए हैं, जिनका बदरवास के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में उपचार जारी है। पुलिस ने मामले को जांच में लिया है।

Dakhal News

Dakhal News 13 May 2020


Indore ,corona suspect ,elderly suicide , jumping ,fourth floor , hospital

इंदौर। इंदौर में कोरोना के एक संदिग्ध बुजुर्ग ने अस्पताल की चौथी मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है कि 78 वर्षीय बुजुर्ग को कोरोना के लक्षण मिलने के बाद एमटीएच अस्पताल में भर्ती किया गया था। बुधवार सुबह बुजुर्ग ने चौथी मंजिल से छलांग ला दी, जिससे उसकी मौत हो गई। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और बुजुर्ग के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू की।सेन्ट्रल कोतवाला थाना प्रभारी बीडी त्रिपाठी ने बताया कि मृतक की पहचान सत्यपाल आहूजा (78) निवासी काटजू कालोनी इंदौर के रूप में हुई है। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि 24 अप्रैल को सत्यपाल आहूजा को निमोनिया और सांस लेने की तकलीफ के चलते एमटीएच अस्पताल लाया गया था, तब ही से उनका इलाज चल रहा था। बुधवार को सुबह करीब सात बजे सत्यपाल आहूजा चौथी मंजिल से कूद गए, जिससे वह दूसरी मंजिल के पोर्च में आकर गिरे और उनकी मौके पर मौत हो गई। पुलिस फिलहाल मामले की जांच कर रही है। प्रारंभिक जांच के आधार पर बीमारी से परेशान बुजुर्ग की आत्महत्या का मामला प्रतीत हो रहा है। जांच के बाद ही मामले का खुलासा हो पाएगा।

Dakhal News

Dakhal News 13 May 2020


bhopal, affinity, nurses serve, mother and sister , Minister of Health

भोपाल। कोरोना काल में डाक्टरों के साथ साथ नर्सों की भूमिका भी बेहद अहम है। परिवार से दूर रहकर और अपनी जान जोखिम में डालकर नर्स मरीजों का इलाज कर रही हैं। किसी भी मरीज के सबसे ज्यादा करीब अस्पताल में नर्सेस होती हैं, ऐसे में उन्हें सबसे ज्यादा खतरा भी होता है। यह कहना गलत नहीं होगा कि मेडिकल सेवाओं में और मरीज के इलाज में नर्सेस की भूमिका काफी महत्वपूर्ण होती है। अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस पर स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने नर्सों को बधाई दी है।   स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस पर सभी नर्सों को बधाई देते हुए उन्हें मां और बहन का रूप बताया है। मंत्री ने कहा कि ईश्वर जहां उपस्थित नहीं हो सकता वहां अपना प्रतिरूप भेजता है। सभी नर्सेस कोरोना महामारी के समय अद्भुत कार्य कर रहीं हैं। उन्होंने कहा कि जिस आत्मीयता से नर्स मां और बहन के रूप में सेवा करती हैं, वह देवतुल्य कार्य है। कोरोना संकट के समय अद्भुत कार्य करने के लिए उनका अभिनंदन।

Dakhal News

Dakhal News 12 May 2020


chindwara, Cotton, purchased,farmers,May 13

छिंदवाड़ा। मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा जिले के संतरांचल सौसर में कपास खरीदी को लेकर व्यवस्था बनाई गई है। यहाँ अब रोजाना सौ किसानों से कपास खरीदी जाएगी। छिंदवाड़ा के सौसर तहसीलदार और कृषि उपज मंडी समिति के भारसाधक अजय शुक्ला ने सभी किसानों से अपील की है कि जब बुलाया जाए तब किसान मंडी में आए।    उन्होंने बताया कि कलेक्टर के आदेशानुसार, सौसर एसडीएम के निर्देश पर कल 13 मई से कृषि उपज मंडी में 60 कृषकों के स्थान पर प्रति दिवस 100 कृषकों से सीसीआई के द्वारा कपास खरीदी की जावेगी। प्रति दिवस 100 पंजिकृत कृषकों को अब सूचना देकर बुलाया जावेगा।    दोनो पंजीकृत जिनिंग में प्रति दिवस 50-50 कृषकों की कपास दी जावेगी। कृषकों को कोई परेशानी न हो इसलिए यह व्यवस्था की गई हैं। यदि कपास खरीदी केंद्र पर किसी भी व्यक्ति के द्वारा कोई गलत तरीके से कपास लाया जा रहा है। यदि किसी को भी इसकी प्रमाणिक जानकारी है तो वह तथ्य सहित प्रसाशन को प्रस्तुत करें कार्यवाही की जावेगी।   

Dakhal News

Dakhal News 12 May 2020


dhaar, 7 new corona patients, found , Dhar district,total 86

धार। जिले में रविवार देर रात आई रिपोर्ट के अनुसार 7 नए कोरोना पॉजीटिव पाए गए हैं। इन्हें मिलाकर जिले में पॉजीटिव रोगियों की संख्या 86 हो गई है। पॉजीटिव पाए गए लोगों में पांच कुक्षी के,  धार की पट्ठा चौपाटी निवासी युवक और बुंदेलवाड़ी क्षेत्र की महिला शामिल हैं।    रविवार रात आई रिपोर्ट में जिन लोगों को पॉजीटिव बताया गया है,  वे पहले से क्वारेंटाइन हैं। अन्य को महाजन अस्पताल के आइसोलेशन सेंटर में शिफ्ट कर दिया गया है। साथ ही पीथमपुर के जो दो बच्चे स्वस्थ हो चुके हैं, उन्हें सोमवार सुबह अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया। इस तरह अब तक जिले के कुल 41 लोग संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं।     धार के महाजन अस्पताल के आइसोलेशन सेंटर से सोमवार को जिन दो बच्चों को डिस्चार्ज किया गया है,  उनके नाम तनवीर और रेहान है तथा उम्र क्रमश: 10 और 12 साल है। दोनों बच्चों को एंबुलेंस से पीथमपुर भेज दिया गया है। जिला महामारी नियंत्रण अधिकारी डॉ. संजय भंडारी और अस्पताल स्टाफ ने बच्चों को गुलदस्ता भेंट कर विदा किया।   

Dakhal News

Dakhal News 12 May 2020


bhopal, Good news,16 areas city, left out , list of Containment Zone

भोपाल। कोरोना संकट से जूझ रहे मप्र की राजधानी भोपाल के लोगों के लिए अच्छी खबर है। शहर के 16 इलाकों को कंटेन्मेंट जोन की सूची से हटा दिया गया हैं। यहां पिछले 21 दिनों से कोई भी कोरोना पॉजिटिव मरीज नहीं मिलने के बाद यह निर्णय लिया गया है। दरअसल इन सभी 16 इलाकों में कोरोना संक्रमण के मामले सामने आने के बाद इन्हें कंटेन्मेंट जोन में शामिल किया गया था।   राजधानी भोपाल के जिन इलाकों को कंटेन्मेंट जोन की सूची से बाहर किया गया है। उनमें ऋषि नगर, साकेत नगर, बागसेवनिया, अलकापुरी, अयोध्या नगर, शाहपुरा, अवधपुरी थाने के पास, निशातपुरा थाना के पास सहित 16 इलाके शामिल है। उल्लेखनीय है कि भोपाल में अब तक कोरोना मरीजों की संख्या 705 तक पहुंच गई है। वहीं पूरे मप्र में 3544 कोरोना संक्रमित है जबकि 213 लोग इस संक्रमण के चलते अपनी जान गवां चुके है।   

Dakhal News

Dakhal News 10 May 2020


jabalpur, Coupling,Shramik special train, broken ,big accident

जबलपुर, 10 मई (हि.स.)। मध्य प्रदेश के जबलपुर जिले में रविवार सुबह एक बड़ा रेल हादसा टल गया। यहां मजदूरों को लेकर जा रही स्पेशल ट्रेन की कपलिंग अचानक टूट गई। चलती ट्रेन की कपलिंग टूटने की जानकारी जैसे ही लोको पायलट को लगी, उसने तुरंत इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन को रोका।  यह हादसा शहपुरा भिटोनी स्टेशन के गेट नंबर 300 के पास हुआ। इसके बाद किसी तरह कपलिंग को जोडक़र ट्रेन को भिटोनी स्टेशन तक लाया गया। यहां से श्रमिक एक्सप्रेस का सुधार कार्य कर गाड़ी को आगे रवाना किया गया।    जानकारी अनुसार प्रवासी मजदूरों को लेकर श्रमिक स्पेशल ट्रेन सूरत से इलाहाबाद जा रही थी। इस दौरान जब ट्रेन जबलपुर की टेढ़ चौकी गेट नंबर 300 के पास पहुँची तभी अचानक कपलिंग टूट गई। कपलिंग टूटने से इंजन के पीछे के तीन डिब्बे लेकर इंजन आगे बढ़ गया। गनीमत रही कि इस दौरान ट्रेन की स्पीड ज्यादा नही थी और पायलट ने तुरंत ही एमरजेंसी ब्रेक लगा लिया, जिससे कोई कोई बड़ा हादसा नही हुआ। टूटी हुई कपलिंग को जोडक़र किसी तरह ट्रेन को शहपुरा भिटौनी रेल्वे स्टेशन तक लाया गया। भिटौनी स्टेशन में लाकर कपलिंग जोड़ी गई तब जाकर गाड़ी आगे बढ़ी। ट्रेन में सवार मजदूरों का कहना है कि कल शाम को यह ट्रेन मजदूरों को लेकर इलाहाबाद के लिए रवाना हुई थी तभी रास्ते में ये हादसा हो गया। ट्रेन को जैसे तैसे भिटौनी स्टेशन लाया गया जहाँ तीन घंटे सुधार कार्य करने के बाद ट्रेन को रवाना किया गया। 

Dakhal News

Dakhal News 10 May 2020


bhopal, Good news, amid increasing infection, recovery rate, reached 57 percent

भोपाल। राजधानी भोपाल में कोरोना का संक्रमण बढ़ता जा रहा है। जहांगीराबाद और मंगलवारा क्षेत्रों में शुक्रवार को भी पॉजीटिव मरीज पाए गए हैं। इसी बीच एक अच्छी खबर आई है कि राजधानी भोपाल में कोरोना के मरीजों का रिकवरी रेट 57 फीसदी पर पहुंच गया है। यानी अब तक जितने मरीज संक्रमित हुए हैं, उनमें से आधे से अधिक स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं।    राजधानी भोपाल में गुरुवार शाम को आई रिपोर्ट के बाद कोरोना पॉजीटिव रोगियों की संख्या 379 पर पहुंच गई है। पुराने भोपाल शहर के हॉटस्पॉट क्षेत्रों में नए मरीज भी मिले हैं। लेकिन अच्छी खबर यह है कि गुरुवार को डिस्चार्ज हुए मरीजों को मिलाकर 399 मरीज अब तक ठीक होकर घर जा चुके हैं। ऐसा भी नहीं है कि जो मरीज स्वस्थ हो रहे हैं, वे सभी युवा हैं। गुरुवार को स्वस्थ होने वाले मरीजों में 09 महीने के बच्चे से लेकर 70 वर्षीय वृद्धा तक शामिल हैं। स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या के अनुसार भोपाल में रिकवरी रेट 57 फीसदी पर पहुंच गया है, जो काफी अच्छा है।    नवाचारों से मिल रही सफलताभोपाल में रिकवरी रेट अन्य शहरों की तुलना में अच्छा होने की एक वजह यह भी है कि यहां कोरोना संक्रमित मरीजों के उपचार में काफी नवाचार किए जा रहे हैं। भोपाल में प्लाज्मा थैरेपी की शुरुआत कर दी गई है, जिसके अच्छे परिणाम मिल रहे हैं। इधर, एम्स में जिस इम्यूनिटी मॉड्यूलेटर दवा माइक्रोबैक्टीरियम डब्लू की ट्रायल की गई थी, उसके भी अच्छे परिणाम सामने आए हैं।    एम्स के डायरेक्टर डॉ. सरमनसिंह के अनुसार जिन दो रोगियों को इस दवा के डोज दिए गए, उनके स्वास्थ्य में तेजी से सुधार आया है और अब वे आईसीयू से बाहर हैं। वहीं, चिरायु हॉस्पिटल एंड मेडिकल कॉलेज के डॉ. अजय गोयनका अच्छे रिकवरी रेट का श्रेय अर्ली ऑक्सीजन थैरेपी को देते हैं। उनका कहना है कि भोपाल में अर्ली ऑक्सीजन थैरेपी के चमत्कारिक परिणाम मिले हैं। इस थैरेपी में मरीजों के गले और लंग्स में ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ाई जाती है, जिससे वायरस की कार्यप्रणाली थम जाती है। डॉ. गोयनका के अनुसार भोपाल में रिकवरी बढ़ाने में इस थैरेपी की भूमिका अहम है।

Dakhal News

Dakhal News 8 May 2020


bhopal, Rain,next week ,many districts ,MP , relief from hot heat

भोपाल। आने वाले सप्ताह में मध्य प्रदेश को तपती गर्मी से थोड़ी राहत मिल सकती है।  मौसम वैज्ञानिकों ने राज्य के मौसम को लेकर संभावनाएं जताई है कि आने वाले सप्ताह में सूबे के कई जिलों में बारिश हो सकती है। वहीं कई जिलों में गरज-चमक के साथ बौछारें या तेज हवा चलने की वैज्ञानिकों ने संभावनाएं जताई हैं। मौसम विभाग का अनुमान है कि कई जिलों का पारा थोड़ा गिर सकता है, लेकिन जिन इलाकों में बारिश नहीं होगी वहां गर्मी अपने तेवर दिखाती रहेगी। मौजूदा स्थिती में प्रदेश के ज्यादातर जिलों का पारा 40 डिग्री के पार पहुंच चुका है।   मध्य प्रदेश के ग्वालियर संभाग में गर्मी चरम पर है। यहां का तापमान अन्य जिलों के मुकाबले बढ़ा हुआ है। प्रदेश में सबसे ज्यादा तापमान खरगोन में दर्ज किया गया। खरगोन में मई की शुरूआत में ही पारा 44 डिग्री पहुंच गया है। राजधानी भोपाल का तापमान भी 40.2 डिग्री दर्ज किया गया है। मौसम विभाग ने आशंका जताई है कि आने वाले दिनों में खरगोन में पारा और अधिक बढ़ सकता है। मध्य प्रदेश में पिछले 24 घंटों के दौरान रीवा, सागर, जबलपुर, शहडोल, भोपाल, उज्जैन, होशंगाबाद, ग्वालियर और चंबल संभागों के जिलों में कहीं-कहीं हल्की बारिश दर्ज की गई और इंदौर संभाग के जिलों का मौसम शुष्क रहा है। जबकि कोलारस में एक सेमी बारिश दर्ज की गई।   मौसम विभाग का अनुमान वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक उदय सरवटे ने जानकारी देते हुए बताया कि बंगाल की खाड़ी से नमी का जमाव और ऊपरी वायुमंडलीय परिस्थितियां अनुकूल होने के कारण अगले 2 से 3 दिनों के दौरान पूर्वोत्तर भारत और पूर्वी भारत में अधिकांश स्थानों पर बारिश होने के आसार नजर आ रहे हैं। आने वाले 24 घन्टों के दौरान पश्चिम हवाओं और नम पूर्वी हवाओं के बीच संगम क्षेत्र के कारण पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र और उत्तर-पश्चिम के निकटवर्ती मैदानों में कुछ स्थानों पर बौछारों के साथ चमक पडऩे की संभावनाएं बन रही हैं।   मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक चंबल संभाग के जिलों में तथा उमरिया, नरसिंहपुर, सिवनी, बालाघाट, छतरपुर, टीकमगढ़, शिवपुरी, ग्वालियर और दतिया जिलों में कहीं-कहीं बारिश होगी. इसके अलावा कुछ जिलों में गरज-चमक के साथ बौछारें भी पड़ सकती हैं. इन इलाकों में से कुछ स्थानों पर ओले गिरने की भी संभावना से इनकार नहीं किया गया है. मौसम विभाग का यह पूर्वानुमान 8 मई तक के लिए है.   यहां बदलेगा मौसम मौसम केन्द्र भोपाल के कुछ जिलों के लिए यलो अलर्ट जारी किया है। केन्द्र का अनुमान है कि प्रदेश के लगभग 15 जिलों में गरज-चमक के साथ तेज हवा चल सकती है। हवा की रफ्तार भी 40 किलोमीटर प्रति घंटे तक हो सकती है। जिन इलाकों में गरज-चमक के साथ तेज हवा चलेगी उनमें चंबल संभाग के जिलों के साथ उमरिया, नरसिंहपुर, सिवनी, बालाघाट, छतरपुर, टीकमगढ़, शिवपुरी, ग्वालियर और दतिया शामिल हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 8 May 2020


bhopal, Special train,buses ,reached Vidisha , 1200 laborers, Kerala

भोपाल/विदिशा। लॉकडाउन के चलते केरल में फंसे मजदूरों को लेकर एक श्रमिक स्पेशल ट्रेन शुक्रवार को सुबह विदिशा स्टेशन पहुंची। इस ट्रेन में प्रदेश के 32 जिलों के करीब 1200 मजदूर सवार थे। सभी मजदूरों की स्वास्थ्य जांच एवं स्क्रीनिंग के बाद उन्हें बसों के माध्यम से अपने घरों की ओर रवाना किया।दरअसल, लॉकडाउन के चलते दूसरे राज्यों में फंसे मजदूरों को विशेष ट्रेनों से उनके गृह पहुंचाया जा रहा है। इसी के चलते केरल में फंसे मध्यप्रदेश के 1200 मजदूरों को लेकर एक श्रमिक स्पेशल ट्रेन शुक्रवार को सुबह विदिशा स्टेशन पहुंची। यह सभी मजदूर प्रदेश के 32 जिलों के रहने वाले बताए गए हैं। कोरोना के चलते प्रशासन ने सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए। एक-एक बोगी से उतारकर पहले उनकी स्क्रीनिंग की गई, फिर उन्हें बस में बैठाकर अलग-अलग जिलों के लिए रवाना किया गया। पहली बस श्योपुर के लिए रवाना हुई। यात्रियों ने इस ट्रेन में किसी तरह का कोई किराया नहीं लेने की बात की है। यात्रियों ने वापसी के लिए प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान का आभार व्यक्त किया है।

Dakhal News

Dakhal News 8 May 2020


mandsour, Complete ,12 new cases , corona positive, district

मंदसौर। जिले में बुधवार की रात को फिर से कोरोना का विस्फोट हुआ जिसमें एक साथ 12 लोागों को कोरोना पॉजीटिव पाया गया है। मिली जानकारी के अनुसार 70 सेम्पल कि रिपोर्ट प्राप्त हुई, जिसमें से 12 पॉजिटिव,1 प्रिजेटिंव मामला सामने आया । पॉजीटिव लोगों में से  8 गुदरी, 3 अशोकनगर,1 छीपा बाखल और 1 प्रिजेटिंव छीपा बाखल के निवासी हैं। ऐसी स्थिति में अब जिले मे कोरोना पाजिटिव मरीजो का आंकड़ा बढ़कर 52 हो गया है।    सभी नये कोरोना पॉजीटिव पूर्व से कोरोना कंट्रोल सेन्टर में भर्ती है। इसलिए घबराने की बहुत ज्यादा आवश्यकता नहीं है। वहीं एक अच्छी खबर यह हैं कि मंदसौर की एक विक्षिप्त महिला जो मंदसौर के महिला गृह में रहती थी, उसे कोरोना पॉजीटिव पाया गया था। महिला को उपचार के लिए प्रशासन ने इंदौर रैफर किया था। बुधवार को उक्त महिला की दूसरी रिपोर्ट भी नेगेटिव प्राप्त हो गई है। महिला को जल्द मंदसौर लाया जायेगा। अब सिर्फ 15 सेम्पलों की रिपोर्ट आना शेष है। हालांकि बाजार खुलने का समय यथावत रखा गया।    सर्कूलर बनाकर मंदसौर की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने का प्रयास  बुधवार को मंदसौर की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए प्रशासन ने मंदसौर शहर के लिए एक सर्कुलर जारी किया। जिसके अंतर्गत सप्ताह में प्रत्येक दुकानदार के लिए दिन और समय तय किया गया है। बुधवार को जारी आदेश के अनुसार  किराना सेव नमकीन की दुकान  सुबह 6 से 11 बजे तक प्रतिदिन रविवार छोड़ कर , दूध सुबह 6 से 10 , शाम 6 से 10 प्रतिदिन , सब्जी- फल सुबह 6 से 11 प्रतिदिन रविवार छोड़कर, स्टेशनरी व चश्मे मंगलवार, गुरुवार सुबह 11 से 5, इलैक्ट्रिक सामान शाम 8 से 11 सोमवार , बुधवार ,शुक्रवार (होम डिलेवरी), कृषि सबंधित सामान दोपहर 12 से 5 बजे तक प्रतिदिन रविवार छोड़कर, सीमेंट , सरिया ,हार्डवेअर सुबह 6 से 11 मंगलवार, गुरुवार, शनिवार (होम डिलेवरी), आटा चक्की , पानी प्रतिदिन सुबह  6 से 11 राज्य व केंद्र शासन द्वारा सुरक्षा संबंधित सभी आदेश का पालन करना होगा । आदेश के अनुसार 2 पहिया वाहन का प्रयोग प्रतिबंधित रहेगा। गारमेंट, मिठाई व बचे अन्य दुकानदारों के लिए अलग से आदेश आएंगे।  

Dakhal News

Dakhal News 7 May 2020


sheopur, Kamal Nath, demands destructionfire in Hullpur village

श्योपुर।  मध्यप्रदेश के श्योपुर जिले में बुधवार देर शाम खेत में नरवाई जलाने से भडक़ी आग ने हुल्लपुर गांव में भीषण तबाही मचा दी। नरवाई से भडक़ी आग ने कई घरों को अपनी चपेट में ले लिया। वहीं इस आग में कई मवेशियों की जलकर मौत हो गई। आगजनी से मची अफरा-तफरी में 7 से 8 लोग झुलसे हैं, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूचना के बाद मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पाने का प्रयास शुरू किया। देर रात आग पर काबू पाया जा सका।   जानकारी अनुसार विजयपुर थाना क्षेत्र के हुल्लपुर गांव में किसी किसान ने अपने खेत की नरवाई में आग लगाई। इस दौरान तेज हवा चलने से जल रही नरवाई के तिनके हवा के साथ गांव में भूसे के ढेरों तक पहुंची और यहाँ से गाँव में पहुंच गई। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया और पूरे गांव में फैल गई। घरों में आग लगा देख ग्रामीणों में भगदड़ मच गई। ग्रामीणों ने प्रशासनिक अमले को इसकी सूचना दी गई। सूचना के बाद तुरंत प्रशासनिक अमला मौके पर पहुंचा। आग पर काबू पाने के लिए प्रशासनिक अमले ने शिवपुरी, मुरैना ओर श्योपुर से फायर ब्रिगेड को बुलाया। लेकिन तब तक आग ने विकराल रुप ले लिया था। इस आग से लगभग 35 घरों को नुकसान पहुंचा है। घरों में रखा किसानों को घरेलू सामान, अनाज नगदी और जेवरात जल गए हैं। कई स्थानों पर बंधे मवेशी भी भाग नही पाए और जलकर मर गए। घर के बाहर कटी रखी गेहूं की फसल- अनाज जलकर राख हो गया। फायर बिग्रेड ने देर रात कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। गुरुवार सुबह तक थोड़ी आग को बुझाया गया।    कमलनाथ ने की मुआवजे की मांग   नरवाई जलाने से हुल्लपुर गांव में हुई आगजनी की घटना पर मप्र के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने दुख जताते हुए सरकार से मुआवजे की मांग की है। कमलनाथ ने गुरुवार सुबह ट्वीट कर लिखा ‘श्योपुर जिले के हुल्लपुर गाँव मे आग से गऱीबों के 20 से ज्यादा घर जलने, 5 मवेशी जिंदा जलने और गृहस्थी का सामान जलने की खबर दुखद है। सरकार तत्काल राहत कार्य प्रारंभ कर प्रभावितों के रूकने एवं भोजन-पानी की अंतरिम व्यवस्था करे और नुक़सान का अविलंब आकलन कर मुआवजा राशि प्रदान करे।  

Dakhal News

Dakhal News 7 May 2020


bhopal, Changes, weather patterns, MP western disturbance

भोपाल। मध्यप्रदेश में पश्चिम विक्षोभ के चलते मौसम का मिजाज इस बार कुछ बदला हुआ सा है। मई का महीना शुरू होने के बाद भी अभी गर्मी ने अपना पूरा असर नहीं दिखाया है। पिछले पांच साल की तुलना में इस बार अप्रैल माह ठंडा बीता है। उधर मई माह की शुरुआत में अभी तक शहर में अपेक्षाकृत गर्मी नहीं पड़ी है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक लगातार बन रहे वेदर सिस्टम के कारण प्रदेश में रुक-रुक कर बरसात हो रही है। इससे दिन के अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी नहीं हो पा रही है। मौसम विज्ञानियों ने आगामी 48 घंटों के दौरान फिर बूंदाबांदी होने की संभावना जताई है।   राजधानी भोपाल समेत प्रदेश के कई इलाकों में बुधवार की रात गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी हुई। हालांकि, गुरुवार को सुबह से मौसम साफ है और तेज धूप खिली हुई है, लेकिन तेज हवा चलने से फिजा में ठंडक घुली हुई है। इधर, वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि इस वर्ष पश्चिमी विक्षोभ के आने का सिलसिला जारी है। पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर भारत में पहुंचते ही मप्र और आसपास ऊपरी हवा का चक्रवात, द्रोणिका लाइन (ट्रफ) बन जाता है। इससे वातावरण में नमी बढ़ती और गरज-चमक के साथ बौछारें पडऩे लगती हैं। इससे दिन के तापमान अपेक्षाकृत बढ़ोतरी नहीं हो पा रही है।   दो सिस्टम सक्रिय अजय शुक्ला के मुताबिक वर्तमान में पूर्वी मप्र पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। इसके अतिरिक्त बिहार से पूर्वी मप्र से होकर तमिलनाडू तक एक ट्रफ बना हुआ है। इन दो सिस्टम के कारण वातावरण में नमी आ रही है। इससे प्रदेश में पिछले दो दिन से कहीं-कहीं गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ रही हैं। इस वजह से राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश स्थानों पर दिन के तापमान में कमी आई है। शुक्ला के अनुसार गुरुवार से फिर बादल छाने लगेंगे। साथ ही बूंदाबांदी भी हो सकती है।  

Dakhal News

Dakhal News 7 May 2020


ujjain, khandwa, 11 cases,Corona , three new cases

उज्जैन/खंडवा। मध्यप्रदेश में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। मंगलवार को उज्जैन में 11 और खंडवा में तीन नये मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही उज्जैन में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 184 और खंडवा में 50 हो गई है।उज्जैन सीएमएचओ कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक, मंगलवार को प्राप्त हुई रिपोर्ट में 11 नये कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि हुई है, जबकि पिछले 24 घंटों के दौरान पांच लोगों की इस महामारी से मौत हुई है। इस प्रकार शहर में अब तक कोरोना से 40 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढक़र 184 हो गई है। उन्होंने बताया कि अब तक जिले में 3628 लोगों के सेम्पल जांच के लिए भेजे गए हैं, जिनमें से 3331 सेम्पलों की रिपोर्ट प्राप्त हो गई है। इनमें 184 पॉजिटिव और शेष रिपोर्ट निगेटिव आई हैं। इसी तरह खंडवा में मंगलवार को तीन नये कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। ये तीनों मरीज शहर के सिंधी कॉलोनी, गंज बाजार और एक घासपुरा क्षेत्र से हैं। इन क्षेत्रों को सील कर दिया गया है। नये तीन मरीज मिलने के बाद जिले में कोरोना मरीजों की कुल संख्या 50 हो गई है, जबकि इस महामारी से जिले में सात लोगों की मौत हो चुकी है। 

Dakhal News

Dakhal News 5 May 2020


bhind, Former Bandit Emperor, Mohar Singh Gurjar ,died , age of 92

भिंड। पूर्व दस्यु सम्राट मोहर सिंह गुर्जर का मंगलवार सुबह निधन हो गया। 92 वर्षीय मोहर सिंह दद्दा, मेहगांव में पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष रह चुके है और लंबे समय से बीमार चल रहे थे। मंगलवार सुबह करीब 9 बजे उन्होंने अपने घर पर अंतिम सांस ली। डकैत मोहर सिंह गुर्जर पर 60 के दशक में 2 लाख का ईनाम घोषित था। उनके ऊपर पुलिस रिकॉर्ड में 315 अपराध दर्ज थे, जिसमें 85 मामलों में वे हत्याओं के आरोपी थे। हालांकि सभी मामलों में वे बरी हो गए थे। बागी रहते हुए मोहर सिंह ने कई लोगों की मदद की। अपराध की दुनिया छोडऩे के बाद वो गरीबों की मदद और गरीब कन्याओं की शादी कराने के लिए प्रसिद्ध हुए थे।    चंबल में पचास के दशक में जैसे बागियों की एक पूरी बाढ़ आई थी। मानसिंह के बाद चंबल घाटी का सबसे बड़ा नाम मोहर सिंह का था। मोहर सिंह के पास डेढ़ सौ से ज्यादा डाकू थे। साठ के दशक में उसका ऐसा आतंक फैल चुका था कि लोग कहने लगे थे कि चंबल में मोहर सिंह की बंदूक ही फैसला थी और मोहर सिंह की आवाज ही चंबल का कानून।   

Dakhal News

Dakhal News 5 May 2020


Ujjain ,newcomer , charge, peak of Mahakal

उज्जैन। जिले के नवागत कलेक्टर आशीष सिंह ने मंगलवार को बाबा महाकाल के शिखर दर्शन करने के बाद पदभार संभाल लिया। पदभार संभालते ही मेला क्षेत्र में संभागायुक्त की मौजूदगी में अधिकारियों के साथ बैठक कर जिले के हालात को समझा। इस दौरान कलेक्टर ने अधिकारियों से कहा कि यह लड़ाई लंबी है, हमें इससे धैर्यपूर्वक लड़ना है। ऐसे सेवा के अवसर प्रत्येक व्यक्ति के जीवन में एक- दो बार ही आते हैं। इसलिए हमें सेवाभाव के साथ जनहितैषी कार्य को आगे बढ़ाना है।    राज्य शासन ने सोमवार को उज्जैन के कलेक्टर शशांक मिश्र को हटाकर इंदौर नगर निगम के आयुक्त आशीष सिंह को उनके स्थान पर पदस्थ किया था। आशीष सिंह पहले यहां निगम आयुक्त रह चुके हैं। मिश्र की नई पदस्थापना शासन ने अपर सचिव के रूप में की है। मिश्र के हटाए जाने के पीछे उज्जैन में बढ़ते कोरोना मरीज और लगातार हो रही मौत को कारण माना जा रहा है। अस्पताल की अव्यवस्थाओं को लेकर मुख्यमंत्री पहले दो बार चेतावनी दे चुके थे। इसके अलावा आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज की अव्यवस्थाएं भी उन पर भारी पड़ी हैं। वहां से रोगियों द्वारा लगातार शिकायतें की जाने के बावजूद प्रशासनिक स्तर पर वे ज्यादा सुधार नहीं करवा पाए।   सांसद, विधायक, महापौर और संघ के नेताओं ने लगाए फोनकोरोना की रोकथाम से जुड़ी अव्यवस्थाओं को लेकर कई दिनों से सवाल खड़े हो रहे थे। रविवार को भाजपा पार्षद मुजफ्फर हुसैन की भी मौत हो गई। इसके बाद भाजपाइयों ने प्रशासनिक फेरबदल की रणनीति बना ली। सांसद अनिल फिरोजिया, विधायक पारस जैन, डॉ. मोहन यादव, महापौर मीना जोनवाल, नगराध्यक्ष विवेक जोशी के अलावा संघ से जुड़े प्रदीप पांडे व सुरेश गिरि ने भोपाल में लगातार बात की। सोशल मीडिया पर हो रहे तरह-तरह के कमेंट्स के बारे में अवगत करवाया। विधायक जैन ने सीएम से चर्चा की। स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैस को आशीष सिंह का नाम सुझाया था।    प्रतिभा इंदौर की निगमायुक्तश्योपुर कलेक्टर प्रतिभा पाल को आशीष सिंह की जगह इंदौर निगमायुक्त का जिम्मा सौंपा गया है। वे इंदौर की पहली महिला निगमायुक्त होंगी। प्रतिभा इंदौर में जिला पंचायत सीईओ भी रह चुकी हैं। उन्होंने कहा कि यह संकट का समय है लेकिन मुझे लगता है कि इससे हम जीत जाएंगे।

Dakhal News

Dakhal News 5 May 2020


burhanpur, student class VI ,made sanitizer ,machine , waste toys

बुरहानपुर। कहा जाता है कि आवश्यकता ही आविष्कार की जननी है। कोरोना संकट के समय लोग नये-नये आविष्कार कर रहे हैं। ऐसे ही बुरहानपुर में एक नन्हें बालक ने वेस्ट खिलौने से सैनिटाइजर मशीन बना दी। इसके साथ ही उसने प्राकृतिक सैनिटाइजर भी बनाया है। इस बालक का नाम योगेश पुत्र अभय सिंह है और वह ग्राम नावरा के सरकारी स्कूल में कक्षा छठवीं में पड़ता है।देशव्यापी लॉकडाउन के चलते अभी सारे विद्यालय बंद है। ऐसे में नावरा के शासकीय माध्यमिक स्कूल के छात्र योगेश ने अपने समय को बचाते हुए खिलौने के वेस्ट मटेरियल से सैनिटाइजर मशीन एवं प्राकृतिक उत्पाद से सैनिटाइजर बनाया है। यह सैनिटाइजर प्राकृतिक नीम, तुलसी, ऐलोविरा एवं कपूर से मिलकर बनाया है। इस कार्य में योगेश की शिक्षिका मनीषा पाल ने मदद की। यह नन्हा बालक अब लोगों को सैनिटाइजर का उपयोग करने के लिए प्रेरित कर रहा है। योगेश ने बताया कि समय के महत्व को पहचाना चाहिए। कैसी भी परिस्थिति हो, हमें कुछ न कुछ प्रयोग करते ही रहना चाहिए। 

Dakhal News

Dakhal News 3 May 2020


bhopal, Doctors are taking, their responsibility, away from family, children

भोपाल। किसी को बचाना और उसके जीवन को नया सहारा देना डॉक्टरों का काम है, लेकिन इस विषम परिस्थिति, संकटकाल में कोरोना संक्रमण से प्रदेश को मुक्त करने के लिए डॉक्टर ऐसे मरीजों का उपचार कर रहे हैं, जो कोरोना से संक्रमित हैं। वे अपनी जान और अपने परिवार की परवाह किए बिना निरंतर अपनी सेवाएं दे रहे हैं। इस कठिन समय में भी डॉक्टर्स सुबह से रात्रि तक पूरी निष्ठा और ईमानदारी व साकारात्मक सोच के कोरोना संक्रमण से आम नागरिकों को बचाने में जुटे हुए हैं।प्रदेश में यह डॉक्टर्स अपनी सेवाओं से प्रीतिदिन नये आयाम, सुखद समाचार और इस जंग में नायाब उदाहरण प्रस्तुत कर रहे हैं। भोपाल के जयप्रकाश चिकित्सालय में भी डॉ. केके अग्रवाल, सचिन नायक, आनंद महाजन, सचिन पाटीदार और अजीत सिंह जैसे डॉक्टर बिना छुट्टी लिए निरंतर कोरोना पीडि़त मरीजों का उपचार और उनकी जांच करते हुए संवेदनशील क्षेत्रों में जाकर कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की पहचान कर रहे हैं। डॉक्टर केके अग्रवाल ने बताया कि वे कोरोना पीडि़त मरीजों की जांच से लेकर उनका उपचार करते हैं और बिना छुट्टी लिए निरंतर अपनी सेवाएं दे रहे हैं। अपने परिवार और बच्चों से दूर रहकर निरंतर कार्य कर रहे हैं। इसी तरह अन्य डॉक्टर्स भी अपनी जिम्मेदारी और फर्ज से इस कोरोना को हराने संकल्प लिए हुए हैं। वे बताते हैं कि हम सबने ठाना है की किसी भी परिस्थिति में भी हम कोरोना से पीडि़त अंतिम व्यक्ति तक का इलाज जारी रखेंगे। जब तक यह संक्रमण पूरी तरह खत्म नहीं हो जाता।उनकी की टीम ने सभी शहरवासियों से यह अनुरोध भी किया है कि वे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन तो अनिवार्य रूप से करें साथ ही अपने घरों में रहते हुए अपने परिवार का पूरा ख्याल रखें। उन्होंने कहा कि शासन प्रशासन आपकी सहायता के लिए तत्पर तो हैं ही स्वास्थ्य दल भी निरंतर आपकी सेवा में जुटा हुआ है। डॉ. अग्रवाल ने बताया कि हम 1000 से 1500 कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के टेस्ट या जांच प्रतिदिन करते हैं। यह सर्वस्व बलिदान है जो परिवार से दूर रहकर भी दूसरों के जीवन को कृतार्थ कर रहे हैं। यह नैतिक मूल्यों और अपने दायित्वों का निर्वहन है जो इस आपदा के समय निष्ठा और कार्य की पराकाष्ठा से ऊपर उठकर समाज सेवा कर रहे हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 1 May 2020


bhopal, 700 policemen, given face shield , save  corona

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना की चपेट में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों के साथ-साथ पुलिसकर्मी भी आ गए हैं, लेकिन अब पुलिस की सुरक्षा के लिए पुख्ता इंतजाम किये जा रहे हैं। यहां संक्रमण कोरोना के बढ़ते संक्रमण और पुलिसकर्मियों की सुरक्षा को देखते हुए भोपाल जोन के एडीजी उपेंद्र जैन और डीआईजी शहर इरशाद वली के निर्देशन में शहर के विभिन्न स्थानों पर ड्यूटी कर रहे 700 से अधिक पुलिसकर्मियों को फेस शील्ड दिये गये हैं।डीआईजी इरशाद वली ने शुक्रवार को बताया कि पुलिसकर्मी लॉकडाउन का सख्ती पालन कराने के लिए जगह-जगह बनाये गए चैकिंग पाइंट्स पर लोगों की जांच कर रहे हैं। ऐसे में वे खुद कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं। चैकिंग और पेट्रोलिंग के दौरान अगर किसी संक्रमित व्यक्ति से पुलिस का सीधा संपर्क होता है तो फेस शील्ड से काफी हद तक संक्रमण से बचाव किया जा सकता है, साथ ही वायरस को फैलने से रोका सा सकेगा। उन्होंने बताया कि आगामी दिनों में भोपाल पुलिस द्वारा अधिक से अधिक तैनात पुलिस कर्मियों को फेस शील्ड उपलब्ध कराई जाएगी, ताकि कोरोना संक्रमण के साथ साथ धूल, धुंआ आदि से भी बचाव किया जा सके। 

Dakhal News

Dakhal News 1 May 2020


Indore, 28 new corona positives found, number of infected crossed 1500

इंदौर। जिले में कोरोना संक्रमितों के आंकड़े में लगातार वृद्धि हो रही है। गुरुवार देर रात आई रिपोर्ट में 28 और लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। इन्हें मिलाकर जिले में अब तक 1513 लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। वहीं, 72 लोगों की मौत हो चुकी है।इंदौर जिले के गुरुवार को 285 सैंपल की जांच की गई, जिनमें से 257 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई। जिले में 4 कोरोना संक्रमितों ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। इन्हें मिलाकर मृतकों की संख्या 7ज2 पर पहुंच गई है। अब तक जिन लोगों की मौत जिले में हुई है,  उन 72 में से 45 मरीज ऐसे थे, जिन्हें पहले से शुगर, ब्लड प्रेशर सहित अन्य कई बीमारियां थीं। मृतकों में 40 मरीजों की उम्र 50 से 70 साल के बीच थी। इन लोगों के लिए कोरोना वायरस जानलेवा क्यों साबित हुआ, इसके लिए एमजीएम मेडिकल कॉलेज डेथ ऑडिट करवा रहा है। इन मृतकों के सैंपल नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी पुणे भेजे जाएंगे।क्वारेंटाइन सेंटर से भागा मरीजशहर के वाटर लिली क्वारैंटाइन सेंटर से गुरुवार रात करीब 8 बजे एक संदिग्ध मरीज भाग निकला। सुनेश पाहुजा नामक इस मरीज को हफ्तेभर पहले ही यहां लाया गया था। सीएमएचओ डॉ. प्रवीण जडिया ने बताया कि अभी तक पाहुजा की रिपोर्ट नहीं आई है। उसकी तलाश की जा रही है। इंदौर जिले में विभिन्न टीमों ने गुरुवार को 550 सैंपल लिए, जो हर दिन के औसत सैंपल से ज्यादा हैं। अब तक 7926 सैंपलों की रिपोर्ट आ चुकी है। जिनमें से 1513 लोग संक्रमित पाए गए हैं। इनमें से जहां 187 लोग ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। वहीं, 1254 लोगों का इलाज जारी है। अब तक 1213 लोगों को क्वारैंटाइन हाउस से घर भेजा जा चुका है।

Dakhal News

Dakhal News 1 May 2020


khargon,three thousand laborers,return home, second phase

खरगोन। लॉकडाउन के कारण जिले में फंसे अन्य राज्यों तथा अन्य जिलों के मजदूरों के घर लौटने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। पहले चरण में जिले से ऐसे 1952 मजदूरों को घर भेजा चुका है। वहीं, अब दूसरे चरण की तैयारी शुरू हो गई है जिसमें तीन हजार से अधिक मजदूरों को उनके घर भेजा जाएगा।    मप्र शासन ने लॉकडाउन और कर्फ्यू के चलते विभिन्न जिलों में फंसे हजारों मजदूरों को अपने-अपने  घर भेजने का निर्णय लिया है। इसी निर्णय के अनुसार रविवार तक जिले से 1952 मजदूरों को उनके घर भेजा जा चुका है। अब दूसरे चरण में ऐसे मजदूरों का डेटाबेस तैयार कर घर भेजने की तैयारी कर ली गई है। जिला पंचायत सीईओ डीएस रणदा ने बताया कि शासन द्वारा निर्धारित प्रकिया के अनुरूप संबंधित राज्य की सीमा तक मजदूरों को भेजा जा रहा है। मजदूरों का डेटा तैयार कर लिया गया है। शनिवार को प्रदेश के विभिन्न जिलों के 1952 मजदूरों को भेजा जा चुका है। अन्य राज्यों के मजदूरों को भी भेजने की पूर्ण तैयारी हो चुकी है।    जिले में हैं अन्य राज्यों के 3284 मजदूर  खरगोन में अन्य राज्यों के 3284 मजदूर हैं। शासन के निर्देशानुसार मजदूरों का डेटा तैयार किया गया है। विभिन्न माध्यमों से तैयार डेटाबेस के अनुसार खरगोन में गुजरात के 1907, महाराष्ट्र के 1209, उत्तरप्रदेश के 4, आंध्रप्रदेश के 7, तेलंगाना के 26, उड़ीसा के 4, तमिलनाडु के 14, केरल के 11, दिल्ली के 10, कर्नाटक के 41, राजस्थान के 15, चेन्नई के 14, पश्चिम बंगाल के 6, पंजाब के 4, बिहार के 2 और जम्मू के 1 मजदूर फंसे हुए हैं। जिला पंचायत सीईओ रणदा ने बताया कि आने-जाने वाले सभी मजदूरों की राज्य की सीमा पर स्क्रीनिंग की जाएगी। उसके बाद 14 दिनों के होम कोरेनटाईन में रखा जाएगा।    गुजरात से लाए जाएंगे जिले के मजदूर जिपं सीईओ रणदा ने बताया कि राज्य शासन द्वारा गुजरात में बड़ी संख्या में मौजूद जिले के मजदूरों को लाने के निर्देश प्राप्त हुए हैं। अन्य राज्यों के मजदूरों को लाने की प्रकिया चल रही है। गुजरात के अलावा अन्य राज्यो के मजदूरों का डेटाबेस के आधार पर लाने की कार्यवाही शासन द्वारा तय गाइडलाइन के अनुसार की जाएगी। उन्होंने बताया कि सोमवार को गुजरात में फंसे जिले के 1907 मजदूरों को लाने के लिए 32 बसें रवाना होंगी। 

Dakhal News

Dakhal News 27 April 2020


raisen, First case ,corona revealed , Mandideep, student ,came out positive

रायसेन। रायसेन जिले के औद्योगिक क्षेत्र मंडीदीप में भी कोरोना ने दस्तक दे दी है। यहां इंदौर से आई छात्रा कोरोना पॉजिटिव निकली है। छात्रा मंडीदीप स्थित शीतल टाउन में रहती है और 21 मार्च को इंदौर से मंडीदीप आई थी। 24 अप्रैल को अचानक छात्रा की तबीयत बिगड़ी थी। भोपाल के चिरायु हॉस्पिटल में छात्रा के पॉजिटिव निकालने का खुलासा हुआ। सीएमएचओ डॉ एके शर्मा ने इसकी पुष्टि की है।    जानकारी अनुसार रायसेन के औद्योगिक क्षेत्र मंडीदीप में कोरोना पॉजिटिव छात्रा मिली है। 27 वर्षीय छात्रा इंदौर से कोचिंग करके लौटी थी। आज सुबह आई रिपोर्ट में उसके कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है। लॉकडाउन की घोषणा के पहले ही छात्रा इंदौर से दो ममेरे भाइयों के साथ मंडीदीप आई थी। पॉजिटिव छात्रा के पिता सिक्योरिटी सुपरवाइजर है। रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद छात्रा के मंडीदीप शीतल टाउन स्थित निवास पर प्रशासन की टीम पहुंची। छात्रा के छह परिजनों को शीतल टाउन स्थित घर पर होम क्वॉरेंटाइन किया गया। सभी के सैंपल लेकर जांच हेतु भोपाल भेजे जाएंगे। मंडीदीप में पहला पॉजिटिव मामला आने के बाद प्रशासन अलर्ट हो गया है। एक बड़ा सवाल यह भी उठता है कि क्या पहले लॉक डाउन की घोषणा के पहले ही इंदौर में कोरोना ने दस्तक दे दी थी, जो इंदौर से कोरोना वायरस संक्रमण लेकर छात्रा मंडीदीप पहुंची।  

Dakhal News

Dakhal News 27 April 2020


gwalior, Huge fire, cap market ,burnt , ashes in lakhs

ग्वालियर। ग्वालियर के टोपी बाजार स्थित झावेरी मार्केट के तलघर में बनी एक दुकान में रविवार देर रात भीषण आग लग गई जिस दुकान में आग लगी उसमें हैंडलूम का सामना रखा हुआ था। आगजनी में दुकान में रखा सामान पूरी तरह से जलकर राख हो गया। सूचना के बाद मौके पर पहुंची फायर बिग्रेड ने दो घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। फिलहाल आग लगने के कारण ज्ञात नहीं हो सका है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।    जानकारी अनुसार टोपी बाजार की संकरी गली में बनी झवेरी मार्केट के तलघर में रविवार रात अचानक आग लग गई। दुकान से आग की लपटें निकलती देख लोगों ने तुरंत फायर ब्रिगेड गाडिय़ों को सूचना दी गई। सूचना के बाद महाराज बाड़े से तत्काल फायर ब्रिगेड की गाड़ी मौके पर पहुंचीं। मार्केट का रास्ता संकरा होने के कारण फायर ब्रिगेड की गाड़ी अंदर नहीं जा पाई और ना ही उसके कुछ उपकरण। इसके बाद बेसमेंट के बगल में बनी दीवार तोडक़र और रास्ता बनाकर आग पर पानी की बौछारें डाली जा सकीं। करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका। फायर बिग्रेड की चार गाडिय़ों ने आग पर काबू पाया। समय रहते आग बुझा लेने से आग फैल नहीं पाई अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था। प्रारंभिक जांच में आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट बताया जा रहा है। पुलिस  ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

Dakhal News

Dakhal News 27 April 2020


indore, 57 deaths, corona , higher than national average

इंदौर।  देश में कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में शामिल इंदौर में इस महामारी से दो और मरीजों की मौत की पुष्टि हुई है। सीएमएचओ डॉ. प्रवीण जड़िया ने शनिवार को बताया कि शहर में पिछले तीन दिन में कोरोना वायरस संक्रमण से दो और पुरुषों की मौत हुई है। इन्हें मिलाकर इंदौर में कोरोना से हुई मौतों की संख्या 57 पर पहुंच गई है, जो राष्ट्रीय औसत से ज्यादा है।      सीएमएचओ डॉ. जड़िया ने बताया कि दोनों मरीज शहर के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती थे। इनमें से एक व्यक्ति दमे का पुराना मरीज था। सीएमएचओ ने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान जिले में कोविड-19 के 56 नये मरीज मिलने के बाद इनकी तादाद 1,029 से बढ़कर 1,085 पर पहुंच गयी है।     आंकड़ों के मुताबिक इंदौर जिले में कोविड-19 के मरीजों की मृत्यु दर शनिवार सुबह तक 5.25 प्रतिशत थी।  जिले में इस महामारी के मरीजों की मृत्यु दर पिछले कई दिनों से राष्ट्रीय औसत से ज्यादा बनी हुई है, जो स्वास्थ्य अधिकारियों के लिए चिंता का विषय है।   

Dakhal News

Dakhal News 25 April 2020


bhopal, Meteorological Department ,estimates rain, some areas , Madhya Pradesh

भोपाल। मध्य प्रदेश में बेमौसम बरसात का सिलसिला जारी है। अप्रैल माह में भी  प्रदेश के कई जिलों बारिश हो रही है। प्रदेश के उत्तरी और उत्तर-पूर्वी जिलों में पिछले कुछ दिनों से हल्की बारिश कुछ स्थानों पर देखने को मिल रही है। वहीं शनिवार को राजधानी भोपाल के आसमान में हल्के बादल छाने के साथ तेज धूप निकली है। मौसम विभाग ने मध्य प्रदेश का साप्ताहिक मौसम पूर्वानुमान (24 से 30 अप्रैल 2020) जारी किया है।    वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक आर आर त्रिपाठी ने जानकारी देते हुए बताया कि 25 अप्रैल से राज्य पर बारिश वाले बादल कम हो जाएंगे लेकिन 25 से 27 अप्रैल के बीच ग्वालियर, मुरैना, रीवा, सतना, पन्ना और टीकमगढ़ आदि जिलों में छिटपुट बारिश जारी रह सकती है। 28 से 30 अप्रैल के बीच मध्य प्रदेश के उत्तरी और पश्चिमी जिलों में हल्की बारिश होने की संभावना है। यानि सप्ताह के आखिर में लंबे समय बाद उज्जैन, रतलाम, इंदौर, धार और नीमच जैसे पश्चिमी जिलों में बारिश होगी। शिवपुरी, गुना और आसपास के भागों में भी बारिश के आसार उस दौरान नजऱ आ रहे हैं।    

Dakhal News

Dakhal News 25 April 2020


Bhopal ,blind woman , rape, arrested

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के शाहपुरा थाना क्षेत्र में एक दृष्टिहीन महिला से दुष्कर्म और लूट की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपित को गिरफ्तार करने में पुलिस ने सफलता हासिल की है। साथ ही आरोपित के पास लूट का सामान भी बरामद कर लिया है। पूछताछ में आरोपित ने महिला के साथ दुष्कर्म और लूट की वारदात को अंजाम देना स्वीकार किया है। भोपाल साउथ एसपी सांई कृष्णा थोटा ने शनिवार को मामले का खुलासा करते हुए बताया शाहपुर क्षेत्र में रहने वाली 53 वर्षीय नेत्रहीन महिला ने गत 17 अप्रैल को सुबह रिपोर्ट दर्ज कराई। पीडि़त ने बताया कि वह अपने पति के साथ यहां रहती है, लेकिन लॉकडाउन के कारण उसके पति राजस्थान में फंस हैं, इसलिए वह अभी यहां अकेले रह रही है। वह 16 अप्रैल की रात खाना खाकर सो गई थी, तभी एक अज्ञात व्यक्ति उसके घर घुसा और उसके साथ दुष्कर्म किया और उसके बाद आरोपित घर में रखा सामान लूटकर फरार हो गया। महिला की शिकायत पर पुलिस ने अज्ञात आरोपित के खिलाफ धारा 376(2)(एल), 377, 450 और 380 भादवि के तहत मर्ग कायम कर जांच शुरू की। उन्होंने बताया कि पीडि़त दृष्टिहीन महिला एक बैंक में अफसर है। पुलिस ने मामले को गंभारता से लेते हुए आरोपित की तलाश शुरू की और संदेह के आधार पर भोपाल के टीन शेड स्थित गुलाब नगर में रहने वाले साहूलाल उर्फ मनोज (25) पुत्र हीरालाल कोल को शुक्रवार को देर रात हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने महिला के साथ दुष्कर्म और लूट की वारदात को अंजाम देना स्वीकार किया। पुलिस ने आरोपित के पास से लूटा गया सोमसंग कंपनी का मोबाइल, एक जोड़ी चांदी की पायल व एक जोड़ी बिछिया बरामद की है। एसपी के अनुसार, आरोपित शातिर बदमाश है और उसके खिलाफ पहले से चोरी, नकबजनी, अवैध शस्त्र रखने तथा दुष्कर्म जैसे 20 मामले पंजीबद्ध है। आरोपित से फिलहाल पूछताछ जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 25 April 2020


Khandwa,Suspected death,sub inspector,  corona, did not have symptoms

खंडवा। खंडवा जिले के जावर थाने में पदस्थ उप निरीक्षक (सब इंस्पेक्टर) अंतर सिंह चौहान की बीती देर रात अचानक तबियत खराब होने के बाद अस्पताल ले जाते समय रास्ते में उनकी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि उनमें कोरोना के कोई लक्षण नहीं थे। उनके सेम्पल जांच के लिए भेजे गये हैं। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।  जावर थाना पुलिस के अनुसार, सब इंस्पेक्टर अंतर सिंह चौहान (56) की बुधवार को देर रात अचानक तबियत खराब हो गई थी, जिसके चलते उन्हें तत्काल जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। जिला अस्पताल के चिकित्सक डॉ. योगेश शर्मा ने बताया कि सब इंस्पेक्टर चौहान में कोरोना संबंधी कोई पूर्व शिकायत नहीं थी और न ही उनमें इस बीमारी के कोई लक्षण थे। उनके सेम्पल लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं। उनका शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही उनकी मौत के कारण का पता चल पाएगा। प्रथमदृष्टया उनकी मौत की वजह हार्ट अटैक लग रही है।   मूल रूप से इंदौर के पास सिमरोल के रहने वाले सब इंस्पेक्टर चौहान लम्बे समय से जावर थाने में पदस्थ रहे। उनके पास कुछ समय के लिए इस थाने के प्रभारी का भी दायित्य रहा है। वे यहाँ स्टाफ़ क़्वार्टर में अकेले रहते थे। थाने में उनके सहयोगी सहायक उप निरीक्षक महेंद्र कराहे ने बताया कि कल रात करीब बारह बजे जब चौहान अपने घर में थे, तब अचानक उन्हें घबराहट हुई तो उन्हें तत्काल पुलिस वाहन से जावर के अस्पताल मेले जाया गया, वहां उनका ब्लड प्रेशर काफ़ी कम हो रहा था, स्थिति गंभीर होते देख उन्हें यहाँ से खण्डवा जिला मुख्य चिकित्सालय रेफर किया गया, जहाँ पहुंचने के पूर्व ही उन्होंने दम तोड़ दिया।

Dakhal News

Dakhal News 23 April 2020


bhopal, Man accused, murdering youth ,arrested,drinking alcohol dispute

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के हबीबगंज थाना इलाके में बीती देर रात शराब पीने के विवाद में एक युवक की हत्या कर दी गई। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू की। पुलिस ने मामले में पांच आरोपितों को गिरफ्तार किया और उनसे पूछताछ की जा रही है।हबीबगंज थाना पुलिस के अनुसार, मृतक की पहचान शाहपुरा निवासी मनोज पवार के रूप में हुई है। वह एक निजी स्कूल की बस का चालक था। पुलिस ने बताया कि मनोज अपने परिचितों के साथ बुधवार-गुरुवार की दरमियानी रात शराब पी रहे थे। इसी दौरान उनके बीच विवाद हुआ, जिसके चलते परिचितों ने मनोज पर चाकू से हमला कर उसकी हत्या कर दी और भाग गए। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए हमीदिया अस्पताल पहुंचाया। वहीं, पुलिस ने मामले में पांच आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। फिलहाल आगे की कार्रवाई जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 23 April 2020


dewas, Labor money is over, laborers are forced, go to Betul , foot from the potter

देवास। लॉक डाउन के चलते सोनकच्छ के समीपस्थ ग्राम कुम्हारिया में बैतूल जिले के 100 से अधिक मजदूर फंस गए हैं। पैसा खत्म हो जाने के कारण अब ये मजदूर परिवार सहित पैदल ही बैतूल जा रहे हैं।    सूत्रों के अनुसार इन मजदूरों को क्वॉरेंटाइन के नाम पर पिछले 20 दिनों से रोक कर रखा गया था। जो मजदूर ग्राम कुम्हारिया में रुके थे ,उनके लिए एसडीएम के द्वारा सरपंच से कहकर सुविधाएं देने की बात कही थी ,मगर सरपंच के द्वारा कुछ भी व्यवस्था नहीं की गई । लोगों का यह भी कहना है कि जो मास्क और सैनिटाइजर इन लोगों को देना थे, वह भी पूरे नहीं दिए गए । एक दो लोगों को दे कर फोटो खिंचवा कर अपने कर्तव्य की इतिश्री कर ली गई। इन मजदूरों के पास राशन भी खत्म हो गया है, तथा जो पैसा मजदूरी में कमाया था, वह भी खर्च हो गया है। रोजमर्रा की दिक्कतों से तंग आकर अब ये मजदूर पैदल ही बैतूल जिले में स्थित अपने घरों के  लिए रवाना हो गए हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 21 April 2020


bhopal,50 lakhs assistance, family ,late TI , Ujjain

भोपाल। उज्जैन के नीलगंगा थाना टीआई यशवंत पाल (59) की मंगलवार को कोरोना से इंदौर में इलाज के दौरान मौत हो गई है। 6 अप्रैल को कोरोना संक्रमण की पुष्टि के बाद उन्हें इंदौर के सीएचएल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 27 मार्च को उनके थाना क्षेत्र की अंबर कॉलोनी में कोरोना पॉजिटिव संतोष वर्मा की मौत हुई थी। इसके बाद इस कंटेनमेंट एरिया की व्यवस्था टीआई खुद देख रहे थे। यहीं पर वे संक्रमित हुए और उनकी हालत बिगड़ती चली गई। तबीयत में सुधार नहीं होने पर 12 दिन पूर्व इंदौर के अरविंदो अस्पताल में रैफर किया गया। लंबे इलाज के बाद इंदौर के अरविंदो अस्पताल में मंगलवार सुबह साढ़े पांच बजे उनकी मौत हो गई।   मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने टीआई यशवंत पाल के निधन पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए परिजनों को आर्थिक सहायता और दिवंगत टीआई की बेटी को नौकरी का ऐलान किया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने ट्वीट के माध्यम से एलान किया है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा ‘#COVID19 से लड़ते हुए कर्तव्य की बलिवेदी पर प्राण त्याग देने वाले उज्जैन नीलगंगा के थाना प्रभारी श्री यशवंत पाल जी को विनम्र श्रद्धांजलि! ईश्वर उनकी पुण्य आत्मा को अपने चरणों में स्थान दें व शोकाकुल परिजनों को संबल प्रदान करें। हम सब उनके परिवार के साथ हैं।   एक अन्य ट्वीट कर सीएम ने ऐलान करते हुए कहा कि ‘दु:ख की इस घड़ी में दिवंगत यशवंत पाल जी के परिवार के साथ मैं व पूरा प्रदेश खड़ा है। शोकाकुल परिवार को राज्य शासन की ओर से सुरक्षा कवच के रूप में 50 लाख रुपए, असाधारण पेंशन, बेटी फाल्गुनी को उपनिरीक्षक पद पर नियुक्ति व स्व.पाल को मरणोपरांत कर्मवीर पदक से सम्मानित किया जायेगा।  

Dakhal News

Dakhal News 21 April 2020


gwalior, 150 buses left , bring back students ,Madhya Pradesh, stranded in Kota

ग्वालियर। राजस्थान के कोटा शहर में रहकर विभिन्न परीक्षाओं की तैयारी कर रहे मध्य प्रदेश के सैकड़ों बच्चों को प्रदेश में वापस लाने के लिए मंगलवार सुबह 150 बसें रवाना हो गई है। ग्वालियर से सुबह आठ बजे निकलीं इन बसों के साथ नगर निगम के अपर आयुक्त दिनेश शुक्ल और मेडिकल स्टाफ को जरूरी दवाओं के साथ भेजा गया है। इन छात्रों की मंगलवार देर रात तक वापसी की उम्मीद है। मध्यप्रदेश में प्रवेश से पहले नीमच और आगर मालवा में सभी की स्क्रीनिंग की जाएगी।    बसों को आज एसएएफ मैदान से कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह और पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन, नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन सहित अन्य अधिकारियों की मौजूदगी में रवाना किया गया। बसों को रवाना करने से पहले पूरी तरह से सैनिटाइज्ड कर सुरक्षा कवच में भेजा गया है तथा अन्य आवश्यक सुरक्षा इंतजाम भी बसों में किए गए हैं। उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश के सेकड़ों बच्चे राजस्थान के कोटा शहर में प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए कोचिंग के लिए गए हैं और लॉक डाउन के कारण वे वापस नहीं आ पा रहे थे। एक परिजन ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को ट्वीट कर बच्चे की वापसी के लिए मदद मांगी थी।   मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान भी बच्चों की वापसी के लिए चिंतित थे उनके निर्देश पर ग्वालियर से 150 बसें कोटा के लिए रवाना की गई हैं। ये बसें कोटा से बच्चों को लेकर उनके उनके जिलों में चली जायेगी और बच्चे एक लंबी अवधि के बाद घर पहुँच जायेंगे। ग्वालियर कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने कोटा से बच्चों को लाने के लिए बस के साथ गए अधिकारियों को निर्देशित किया है कि कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए सभी आवश्यक उपाय जाते व आते समय जरूर किए जाएं । बच्चों को किसी भी प्रकार की परेशानी ना हो इसके लिए भी प्रशासन ने जो  प्रबंध किए हैं उसका पालन किया जाए।  

Dakhal News

Dakhal News 21 April 2020


rajgarh, Woman sub-inspector,constable annulled ,duty

राजगढ़। कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से जिले के दो पुलिसकर्मियों ने अपने –अपने विवाह फिलहाल स्थगित कर दिए हैं। उन्होंने कोरोना के कारण चल रही मुसीबत की घड़ी में शादी से पहले ड्यूटी का फर्ज निभाने के लिए यह निर्णय लिया है।    जिले के शहर कोतवाली थाने में पदस्थ महिला उप निरीक्षक मोनिका राय और मलावर थाने के महावीर पेजवाल ने कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे के लिए जनसेवा के लिए अपनी शादियां निरस्त की हैं। इन दोनों पुलिसकर्मियों की शादी की पत्रिकाएं छपकर वितरित हो चुकी थीं। इनके घरों में भी शादी की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई थीं, लेकिन लॉक डाउन की वजह से उन्होंने अपनी शादियाँ ही निरस्त कर दी है।मलावर थाने मे पदस्थ आरक्षक महावीर पेजवार की बीती 15 मार्च को सगाई हो चुकी है और 15 अप्रैल को नयागाँव सीहोर निवासी नेहा के साथ उनकी शादी होना थी, लेकिन कोरोना वायरस संक्रमण के दौरान लॉक डाउन का पालन कराने और फर्ज निभाने की खातिर उन्होंने अपने परिजनों से कहकर अपनी शादी की तारीख आगे बढ़ा दी।    इसी तरह शहर कोतवाली राजगढ़ मे पदस्थ महिला उप निरीक्षक मोनिका राय की शादी 20 अप्रैल को विदिशा जिले के गंजबासोदा निवासी संजीव चौकसे के साथ होनी थी। सरकार द्वारा बढ़ाए गए लॉक डाउन मे देश सेवा के लिए ड्यूटी करना थी। इसलिए उन्होंने शादी स्थगित कराकर आगे की तिथि बढ़वाने के लिए परिजनों को बता दिया है। हालांकि शादी की पत्रिका छपकर वितरित भी हो चुकी हैं।

Dakhal News

Dakhal News 19 April 2020


bhopal, Major government offices, industries, will open, MP from Monday

भोपाल। मध्य प्रदेश में सोमवार, 20 अप्रैल से सरकार के प्रमुख कार्यालय खुले जाएंगे। इसमें मध्यप्रदेश सरकार का सचिवालय और संचालनालय के साथ कुछ चुनिंदा सरकारी कार्यालय खुलेंगे। वहीं प्रदेश में सोमवार से उद्योगों को भी शुरू किया जाएगा। प्रदेश की अर्थव्यवस्था को संभालने के लिए मुख्यमंत्री ने रोड मैप तैयार किया है। उद्योग के लिए गाइडलाइन जारी की गई है।   मुख्य सचिव सामान्य प्रशासन विभाग ने ड्राफ्ट तैयार किया है। मुख्यमंत्री के मंजूरी के बाद सोमवार से प्रदेश के चुनिंदा सरकारी दफ्तरों को खोले जाएंगे। मंत्रालय के कुछ विभागों में कल से काम शुरू हो जाएगा। फिलहाल सभी प्रमुख सचिवों, सचिवों, अपर सचिवों के साथ एक उपसचिव और एक पीए को कार्यालय बुलाने की अनुमति रहेगी। इसके अलावा तृतीय और चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी रहेंगे, जो फाइल मूवमेंट में मददगार होंगे। अभी आधे दिन के मंत्रालय पहुंच रहे सीनियर अधिकारी भी सोमवार से पूरे दिन कार्यालय में उपस्थित रहेंगे। हालांकि मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस ने सचिवालय में ई-फाइल सिस्टम लागू कर दिया है ।   इसके अलावा केंद्र सरकार के आदेश के बाद सोमवार से शुरू होने जा रहे औद्योगिक क्षेत्रों के उद्योगों को के लिए गाईडलाइन जारी की गई है। जिसमें स्पष्ट कर दिया है कि थर्मल स्क्रीनिंग, सैनिटाइजेशन और सोशल डिस्टेंसिंग को फॉलो करते हुए ही काम शुरू होगा। उद्योगों में संक्रमित क्षेत्रों से मजदूर काम करने नहीं आएंगे। वर्क प्लेस पर मास्क, सेनिटाइजऱ, सहित सुरक्षा के व्यापक व्यवस्था के निर्देश दिए गए हैं। वहीं संक्रमित क्षेत्रों में उद्योग शुरू नहीं किए जाएंगे। 20 अप्रैल से गोविंदपुरा और मंडीदीप की 40प्रतिशत से ज्यादा इंडस्ट्री में काम शुरू हो जाएगा। हालांकि कर्मचारियों की संख्या रोजाना की अपेक्षा अभी आधी ही रहेगी।   

Dakhal News

Dakhal News 19 April 2020


bhopal, 12 corona positive, again found, including nine-day-old girl

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में शनिवार को राहत के बाद रविवार को फिर 12 नये कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इनमें एक नौ दिन की बच्ची भी शामिल हैं। इसकी पुष्टि भोपाल के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. प्रभाकर तिवारी ने की है। इसके साथ ही भोपाल में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 213 से बढ़कर 225 हो गई है। सीएमएचओ डा.प्रभाकर तिवारी ने बताया कि रविवार को कोरोना जांच की 12 रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई है। इनमें सबसे कम उम्र की एक नौ दिन की बच्ची भी शामिल है। उसके अलावा एक 11 साल का बच्चा और अन्य 10 सांई बाबा नगर के लोग पॉजिटिव मिले हैं। भोपाल में अब कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 225 पहुंच गई है। उन्होंने बताया कि शनिवार को शहर में एक भी पॉजिटिव मरीज नहीं मिला। शनिवार को 193 रिपोर्ट प्राप्त हुई थीं और सभी निगेटिव थी। इसके अलावा शनिवार को 30 कोरोना मरीजों को स्वस्थ होने के बाद अस्पतालों से डिस्चार्ज भी किया गया है। इस तरह भोपाल से अब तक 32 कोरोना के मरीज स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच चुके हैं। डा. तिवारी ने बताया कि शनिवार को भोपाल से 1663 सेम्पल जांच के लिए दिल्ली भेजे गए हैं। इससे पहले शुक्रवार को 1325 सेम्पल दिल्ली भेजे गए थे। अभी उनकी रिपोर्ट आना शेष है। इसके अलावा गांधी मेडिकल कॉलेज के 946 और भोपाल मेमोरियल हॉस्पिटल के 717 सेम्पल की जांच रिपोर्ट अभी नहीं आई है। इसीलिए भोपाल में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ सकती है। 

Dakhal News

Dakhal News 19 April 2020


khandwa, Number , 17 new ,corona positive, infected patients

खंडवा। मध्यप्रदेश में इंदौर, भोपाल के बाद खंडवा जिले में भी कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। यहां गुरुवार को सुबह नये कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इसके साथ ही यहां कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढक़र 32 हो गई है। इसकी पुष्टि जिला कलेक्टर तन्वी सुन्द्रियाल ने की है। उन्होंने बताया कि जिले में गुरुवार को सुबह 17 लोगों की कोरोना की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है और सभी पॉजिटिव पाए गए हैं। हालांकि, उन्होंने यह भी बताया कि कोरोना पॉजिटिव पाए गए मरीजों में अभी किसी में भी कोरोना बीमारी के कोई लक्षण दिखाई नहीं दे रहे हैं। ये लोग पूर्व में कोरोना पॉजिटिव मरीजों के परिजन हैं और उन्हें क्वारेंटाइन कर सेम्पल जांच के लिए भेजे गए थे। उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद दोबारा सेम्पल लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं। वहीं, इन सभी लोगों के सम्पर्क में आने वाले लोगों की जानकारी जुटाई जा रही है। जिले में अब तक कुल 32 लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं और संक्रमित मरीजों के क्षेत्रों को कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित कर वहां के लोगों की जांच की जा रही है।

Dakhal News

Dakhal News 16 April 2020


bhopal, 1270 cases, lockdown violation registered

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में पुलिस द्वारा कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लागू लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराया जा रहा है। भोपाल जिले में गत 22 मार्च से अब तक लॉकडाउन उल्लंघन के कुल 1270 प्रकरण दर्ज किये गये हैं। यह जानकारी गुरुवार को पुलिस कंट्रोल रूम से दी गई।  बताया गया है कि भोपाल पुलिस द्वारा लॉकडाउन का सख्ती से पालन करवाया जा रहा है। इसके बावजूद लोग वेवजह घूमने और लॉक डाउन का उल्लंघन करने से बाज नहीं आ रहे हैं। प्रतिदिन औसतन 50 प्रकरण दर्ज किये जा रहे हैं। बीते 22 अप्रैल से अब तक 25 दिन में कुल 1270 मामले पंजीबद्ध किये गये हैं। लॉकडाउन के दौरान पुलिस ने बीते 24 घंटे में 101 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। इनमें सबसे अधिक एफआईआर टीलाजमालपुरा, हनुमानगंज और मंगलवारा थाने में दर्ज की गई।

Dakhal News

Dakhal News 16 April 2020


jabalpur, New inmates ,coming ,Jabalpur Central Jail

जबलपुर। देशभर में कोरोना संक्रमण का संकट गहराता जा रहा है। रोजना तेजी से कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ रही है। मध्यप्रदेश भी कोरोना महामारी की चपेट में तेजी से आ रहा है। सरकार कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए हर संभव कोशिश कर रही है, बावजूद इसके प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। संस्कारधानी जबलपुर भी कोरोना की चपेट में है। जबलपुर में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 13 हो गई है। ऐसे में जबलपुर सेंट्रल जेल में बंद कैदियों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए जेल प्रबंधन ने नया नियम बनाया है। नियम के अनुसार जेल में आने वाले नए कैदियों को पहले सामान्य बैरक में शिफ्ट करने से पहले 15 दिन तक क्वॉरेंटाइन में रहना होगा। सेंट्रल जेल प्रशासन ने इसके लिए 30 कमरों का क्वॉरेंटाइन सेंटर बनाया है।   उल्लेखनीय है कि जेल के अन्य कैदियों को कोराना संक्रमण से बचाने के लिए यह कवायद की गई है। गौरतलब है कि इंदौर से जबलपुर भेजे गए कैदियों में से एक को कोरोना पॉजिटिव पाया गया था, इन कैदियों को इंदौर में मेडिकल टीम और पुलिस वालों पर पत्थरबाजी के कारण गिरफ्तार किया गया था। कैदी को संक्रमित होने के बाद प्रशासन के सामने जेल में संक्रमण न फैले यह सबसे बड़ी चुनौती बन गई थी। इसके बाद यहां जिला प्रशासन ने राज्य सरकार और इंदौर जेल प्रशासन से लॉकडाउन की अवधि में कैदियों को जबलपुर जेल में शिफ्ट नही करने की मांग की थी। क्योंकि इससे नए मरीजों में संक्रमण का खतरा था। वहीं इंदौर से सतना भेजे गए दो कैदियों में भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया था।

Dakhal News

Dakhal News 16 April 2020


indore, Information,new 91 Corona positive patients ,misleading CMHO

इंदौर। इंदौर में मंगलवार को सुबह महात्मा गांधी मेडिकल कॉलेज द्वारा जारी रिपोर्ट में 91 नये कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि की थी, जिसे इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने भ्रामक बताया है। उन्होंने कहा है कि अभी जारी किये गए आंकड़ों से हिसाब से इंदौर में अब तक कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 411 है। रिपोर्ट में कुछ लोगों के नाम रिपीट हुए हैं और कुछ ऐसे लोग की रिपोर्ट भी जारी हुई है, जो पहले भी जांच में पॉजिटिव पाये गये थे। ऐसे मरीजों की स्क्रूटनी की जा रही है। स्क्रूटनी के बाद शाम तक पॉजीटिव मरीजों की सही संख्या जारी कर दी जाएगी। सीएमएचओ डॉ. जडिय़ा ने बताया कि इससे पहले सोमवार शाम को 56 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। जिसके बाद मंगलवार को मेडिकल कॉलेज द्वारा 91 पॉजिटिव मरीजों की रिपोर्ट जारी की गई है। इनमें नये मरीज कितने हैं, इसकी स्क्रूटनी के बाद ही पता चल पाएगा। अभी उनमें से 49 नये मरीजों के पॉजिटिव होने जानकारी सामने आई है। इस हिसाब से अभी तक इंदौर में कुल 411 कोरोना संक्रमित मरीज पाये गये हैं। वहीं, मंगलवार शाम तक दिल्ली भेजे गए 12 सौ अधिक सैम्पलों की रिपोर्ट भी आने वाले है. इसीलिए देर शाम को बुलेटिन में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या एकदम से बढऩे की संभावना है। 

Dakhal News

Dakhal News 14 April 2020


bhopal, Scindia welcomed ,decision ,increase lock down

भोपाल। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश में कोरोना संकट से निपटने के लिए लॉक डाउन को आगामी तीन मई तक बढ़ा दिया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि कल 15 अप्रैल को सरकार लॉक डाउन को लेकर नई गाइडलाइन जारी करेगी। भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पीएम मोदी के लॉक डाउन बढ़ाने के निर्णय का स्वागत किया है। साथ ही उन्होंने देश-प्रदेश के नागरिकों से अपील की है कि देशहित में पूर्ण रूप से अनुशासन से लॉक डाउन का पालन करें, हमारी सावधानी और अनुशासन ही इस बीमारी का इलाज है। भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के देश के नाम संबोधन के बाद ट्विटर पर एक एक वीडियो जारी किया है, जिसमें उन्होंने कहा है कि घर में रहकर ही एक जिम्मेदार नागरिक होने का परिचय मिलकर साथ में दें। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश और देश भर के कार्यकर्ताओं व नागरिकों से अनुरोध है कि कोरोना महामारी संकट के इस समय में अपने आसपास जरूरतमंदों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए राशन, मास्क और सैनिटाइजर का वितरण करें। सिंधिया ने आगे ट्वीट किया है कि - "एक जाग्रत राष्ट्र के नागरिक के रूप में कोरोना संकट के इस समय आइये हम सब मिलकर संकल्प लें-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा लॉक डाउन बढ़ाये जाने के निर्णय को और अधिक सशक्त और मजबूत बनाने का"।’

Dakhal News

Dakhal News 14 April 2020


badwani, khandwa, Three found, 10 new Corona positives

बड़वानी/खंडवा। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यहां बड़वानी जिले में मंगलवार को सुबह एक स्वास्थ्य अधिकारी समेत तीन लोगों रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके बाद यहां कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढक़र 17 हो गई है। वहीं, खंडवा में भी मंगलवार को 10 नये कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इन्हें मिलाकर खंडवा जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 15 पहुंच गई है। बड़वानी में मंगलवार को सुबह प्राप्त रिपोर्ट में 53 वर्षीय अधिकारी, बड़वानी की ही 56 वर्षीय स्वास्थ्य कर्मी और सेंधवा का 15 वर्षीय किशोर पॉजिटिव पाया गया है। इसकी पुष्टि बड़वानी कलेक्टर अमित तोमर ने की है। वहीं, खंडवा कलेक्टर तन्वी सुन्द्रियाल ने बताया कि मंगलवार को सुबह 25 जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई, जिसमें 15 व्यक्तियों की रिपोर्ट निगेटिव तथा 10 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इससे पहले खंडवा जिले में पांच पॉजिटिव प्रकरण थे। इस दस को मिलाकर अब यहां कोरोना के पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढक़र 15 हो गई है।

Dakhal News

Dakhal News 14 April 2020


jabalpur, Three patwari suspended, immediate effect,  negligence in work

जबलपुर। कोरोना महामारी के संकट से जूझ रहे मध्य प्रदेश में शासन की तरफ से सभी सरकारी कर्मचारियों को ड्यूटी पर रहने और अपने जिम्मेदारी के निर्वहन के आदेश दिए हैं। इसके बावजूद जबलपुर में कार्य में लापरवाही बरतने पर तीन पटवारियों पर निलंबन की गाज गिरी है। जबलपुर जिले के अंर्तगत कुंडम में ये कार्रवाई की गई है। निलंबन अवधि में पटवारियों को कहां तैनात किया जाएगा, इसकी सूचना नहीं दी गई है।   जानकारी अनुसार जबलपुर जिला अंतर्गत कुंडम में तीन पटवारी अपनी नियत ड्यूटी स्थान पर अनुपस्थित पाए गए। शनिवार को कुंडम तहसीलदार जब निरीक्षण के लिए विभिन्न स्थानों पर पहुंचे तो तीनों पटवारी अपने ड्यूटी स्थान पर मौजूद नहीं थे, इसकी सूचना तहसीलदार ने कुंडम एसडीएम को दी। एसडीएम के निर्देश पर तीनों पटवारियों को निलंबित कर दिया गया है। फिलहाल निलंबन अवधि के दौरान पटवारी अपनी सेवा कहां देंगे, इसकी सूचना नहीं दी गई है। 

Dakhal News

Dakhal News 12 April 2020


bhopal, Women sub-inspector ,started kitchen,Nishatpura police station

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना महामारी का कहर बढ़ता जा रहा है। इस महामारी से संक्रमित लोगो की संख्या बढ़ती जा रही है। बीते दिनों भोपाल शहर के कुछ पुलिसकर्मियों भी इस महामारी की जद में आ गए थे। इसके बाद से पुलिसकर्मियों को ड्यूटी करते वक़्त विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए गए है। इस स्थिति में पुलिसकर्मियों को खाने पीने में कोई असुविधा न हो इसलिए भोपाल के ही कुछ थानों में रसोई बनाई गई है। ऐसी ही एक पहल अब भोपाल के निशातपुरा थाना परिसर में की गई है।   अब कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए लॉकडाउन का सख्ती से पालन करवाने में लगातार ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मियों की सहूलियत के लिए थाना निशातपुरा परिसर में महिला सब इंस्पेक्टर उर्मिला यादव, महिला आरक्षक दीपमाला, सारिका साहू एवं थाना स्टॉफ द्वारा एक रसोईघर की शुरुआत की गई है।     इस रसोई में पुलिस स्टॉफ द्वारा करीब 115 ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों का दोनों वक़्त का भोजन बनाया जा रहा है एवं थाने के सभी पुलिसककर्मी दोनों टाइम यही भोजन करते है। थाना निशातपुरा की इस पहल व कार्य को वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा काफी सराहा जा रहा है ।   बता दें, राजधानी भोपाल मेंकुछ पुलिसकर्मी कोरोना से संक्रमित हुए है।इसके बाद यह निर्णय लिया गया है कि भोपाल के सभी पुलिसकर्मी अपने अपने थान अंतर्गत स्थित होटलों में रहेंगे। जहाँ उनका रोज चेकअप किया जाएगा और रोज उन्हें सेनिटेशन दिया जाएगा। 

Dakhal News

Dakhal News 10 April 2020


sagar,Corona epidemic, gives a positive , Dastak ,Bundelkhand

सागर। मध्यप्रदेश में कोरोना महामारी फैलती जा रही है इंदौर के बाद भोपाल में भी प्रतिदिन कोरोना से संक्रमित लोगो की सांख्य बढ़ती जा रही है। अभी तक इस महामारी से अछूता रहा सागर शहर में भी कोरोना ने दस्तक दे दी है।   सागर के लिए यह बुरी खबर है। बीते दिन भेजे गए तीन सैम्पल में से एक मरीज की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। रिपोर्ट की पुष्टि होते ही जिला प्रशासन ने पूरे एरिया सील को सील कर दिया है। इसके बाद पूरे वार्ड को सेनेटाइज किया जा रहा है।    बात दें, सागर में कोरोना महामारी का यह पहला केस है। शनिचरी क्षेत्र में रहने वाले संक्रमित युवक को दो दिन पहले ही बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में भर्ती किया गया था। यहीं से उस मरीज का सेंपल लेकर भोपाल के एम्स हॉस्पिटल भेजा गया था। सागर बुंदेलखंड मेडीकल कालेज के डीन ने जांच रिपोर्ट की पुष्टि की है।   

Dakhal News

Dakhal News 10 April 2020


bhopal, IPS Manish Shankar, most energetic officer, MP, annual survey ,Fame India magazine

भोपाल। फेम इंडिया मैगजीन-एशिया पोस्ट के वार्षिक सर्वे "25 उत्कृष्ट आईपीएस 2020" के द्वारा  वरिष्ठ आइपीएस अधिकारी एवं अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक मप्र मनीष शंकर शर्मा को ऊर्जावान अधिकारी के तौर चयनित किया गया है, इस उत्कृष्ट व उल्लेखनीय उपलब्धि के लिए नेहरू युवा केंद्र भोपाल के जिला युवा समन्वयक डॉ सुरेंद्र शुक्ला, प्रदीप देशमुख, शुभम चौहान, हर्षा हासवानी,मधु प्रसाद, राहुल तिवारी सहित सभी ने बधाई व शुभकामनाएं दी।   ज्ञात हो कि किसी भी राष्ट्र की सुरक्षा पुलिस वालों पर ही निर्भर करती है। पुलिस व्यवस्था सभी प्रकार की शासन प्रणालियों में अहम् योगदान देती है। देश में शान्ति बनाये रखने के लिए पुलिस का अस्तित्व अत्यंत आवश्यक है। हाल ही में जब देश में कोरोना महामारी का प्रकोप जारी है, ऐसे में भी ये पुलिसकर्मी अपनी जान की परवाह ना करते हुए हमारी सुरक्षा में दिन-रात लगे हुए हैं। ऐसे में इन पुलिसकर्मियों को प्रोत्साहित करने के लिए फेम इंडिया द्वारा हर साल एक सर्वे किया जाता है, जिसमे विभिन्न मानदंडों के आधार पर उत्कृष्ट पुलिसकर्मियों का चयन होता है।    इस वर्ष भी फेम इंडिया ने देश के ऐसे आईपीएस अधिकारियों का सर्वे किया है, जो अपने कार्यों और प्रयासों से लोगों के जीवन में सुरक्षा की भावना बढ़ाने, समाज में सौहार्द स्थापित करने और सकारात्मक संभावनाओं को मजबूत करने की निरंतर और ईमानदार कोशिश कर रहे हैं। इस फेहरिस्त में फेम इंडिया ने 25 उत्कृष्ट आईपीएस अधिकारियों 2020 का यह सर्वे कार्यशैली, ईमानदारी, कर्तव्यनिष्ठा, जज्बा, जागरूकता, कानून व्यवस्था, जनता से जुड़ाव, प्रभाव, छवि और कार्यकाल जैसे 12 मानदंडों पर किया गया है।    

Dakhal News

Dakhal News 7 April 2020


sehore,SP exploded, city of Corona , sanitizer itself

सीहोर। कोरोना के फैलते संक्रमण से बचने के लिए देश भर में 21 दिनों के लिए लॉक डाउन लागू है। मध्यप्रदेश में भी भोपाल समेत सभी जिला मुख्यालयों पर पुलिस द्वारा लॉक डाउन का सख्ती से पालन कराया जा रहा है और लोगों को मास्क सहित सैनिटाइजर उपयोग की सलाह दी जा रही है। इसी क्रम में सीहोर एसपी ने मोर्चा संभालते हुए शहर के मुख्य सडक़ों पर सेनिटाइजर का छिडक़ाव किया, साथ ही इस महामारी से निपटने अपनी ड्यूटी निभा रहे सफाई कर्मचारियों का फूल देकर और ताली बजाकर सम्मान किया गया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के जिले सीहोर के पुलिस अधीक्षक एसएस चौहान ने स्वयं मंगलवार को सुबह शहर की मुख्य सडक़ लिसा टाकीज और मैन रोड पर सैनिटाइजर स्प्रे का छिडक़ाव किया, साथ ही कोरोना से निपटने के लिए ड्यूटी पर तैनात नगर पालिका के सफाई कर्मचारियों का फूल देकर और दो मिनट तक ताली बजाकर एसपी सहित पुलिस कर्मियों ने उनका सम्मान किया।इस अवसर पर एसपी एसएस चौहान ने कहा कि पिछले कई दिनों से कोरोना से लडऩे के लिए हमारे सफाई कर्मी भाई-बहन लगे हुए हैं और शहर की साफ-सफाई कर रहे हैं। वे जो कर्तव्य निभा रहे हैं, उनका उचित मान सम्मान नहीं मिल रहा है, इसलिए आज सभी सफाई कर्मियों का सम्मान किया गया है।

Dakhal News

Dakhal News 7 April 2020


seoni, Police filed case ,notice ,came to offer Namaz,lockdown

सिवनी। मध्यप्रदेश के सिवनी जिले के मुख्यालय स्थित गरीब नवाज मजिस्द में लॉकडाउन के दौरान शुक्रवार शाम को 30 से 40 लोग नमाज पढ़ने के लिए एकत्रित हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने सभी को गिरफ्तार करके उनके खिलाफ धारा 188 के प्रकरण दर्ज किए हैं। लेकिन शनिवार सुबह सभी को नोटिस देकर छोड़ दिया गया। कोतवाली पुलिस ने भादिव की धारा 188 के तहत मामला दर्ज किया है।  कोतवाली पुलिस द्वारा दी गई जानकारी अनुसार कोविड-19 की संक्रामकता को देखते हुए जिले में लॉकडाउन घोषित कर धारा 144 की निषेधाज्ञा लागू की गई है। इस दौरान सभी नागरिकों को अपने घरों में रहने के लिये कहा गया है। इसके बावजूद शुक्रवार को थाना कोतवाली अंतर्गत संजय वार्ड स्थित गरीब नवाज मस्जिद के सामने मुस्लिम समाज के 30-40  व्यक्ति नमाज पढ़ने के लिये एकत्रित हो गए थे। इन लोगों ने न तो मॉस्क लगाया था और न ही इनके द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा रहा था।  सूचना मिलने पर पुलिस तत्काल गरीब नवाज मस्जिद पहुंची। पुलिस को देख कर कुछ लोग इधर-उधर भाग गए। मस्जिद के सामने 10-12 लोग उपस्थित पाए गए जिन्हें हिरासत में लिया गया एवं सभी के विरुद्ध थाना कोतवाली में भादवि की धारा 188 के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया है। जो लोग मौके से भाग गए उनको भी आरोपित बनाया गया है।    इसलिए नोटिस देकर छोड़ा  धारा 188 का प्रकरण दर्ज होने पर आरोपियों को पुलिस ने नोटिस देकर छोड़ दिया। इस बारे में सिवनी एसडीओपी पारुल सिंह ने शनिवार को हिस को बताया कि फिलहाल न्यायालय बंद चल रहे हैं और कानूनी प्रक्रिया आगे नहीं बढ़ पाती। इसलिए आरोपितों को नोटिस देकर छोड़ दिया गया है। जैसे ही न्यायालय का काम शुरू होगा, कानूनी प्रक्रिया आगे बढ़ाई जाएगी।    पुलिस ने दी कड़ी कार्रवाई की चेतावनी सिवनी पुलिस द्वारा जिले के सभी नागरिकों से बार-बार अपील की जा रही है कि लॉकडाउन का पूर्ण रूप से पालन करें। पुलिस ने मुस्लिम समाज के नागरिकों से भी अपील की है कि वह मस्जिदों में ना जाते हुए घर पर ही नमाज पढ़ें।  पुलिस ने चेतावनी दी है कि लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा । उनके विरुद्ध वैधानिक दंडात्मक कार्रवाई की जायेगी। 

Dakhal News

Dakhal News 4 April 2020


seoni, Lockdown and curfew ,293 children,sanitized, birth hospital

सिवनी। मध्यप्रदेश के सिवनी जिले के बारापत्थर स्थित प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी जिला चिकित्सालय को नियमित रूप से सेनिटाइज किया जा रहा है। ज्ञात हो कि सिवनी जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए 21 मार्च से लाॅकडाउन किया गया है । तब से लेकर 01 अप्रैल तक लॉकडाउन व कर्फ्यू के बीच 293 बच्चों की किलकारियां जिला चिकित्सालय में गूंजी है।    जानकारी के अनुसार कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए जिले के सभी सार्वजनिक स्थानों के साथ ही शासकीय जिला चिकित्सालय को भी नियमित रूप से सेनिटाइज किया जा रहा हैं तथा प्रत्येक वार्ड की नियमित साफ सफाई की जा रही है। डिलेवरी वार्ड, पोस्ट आपरेटिववार्ड में महिलाओं व बच्चों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए 24 घंटों में चार बार सफाई की जा रही है। कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए आवश्यक एहतियात भी बरती जा रही है। साथ ही महिलाओं के स्वजनों को अस्पताल पहुंचने में असुविधा न हो, इसे ध्यान में रखते हुए संबंधितों को पास भी दिए गए हैं।    13 दिन में 293 बच्चों ने लिया जन्म  जिले में लॉकडाउन व कर्फ्यू के दौरान प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी जिला चिकित्सालय में गर्भवती महिलाओं के पहुंचने का सिलसिला जारी है। जारी लाॅकडाउन के दौरान  21 मार्च से 1 अप्रैल तक यहां 129 बच्चों की नार्मल डिलेवरी एवं माइनर आपरेशन से 71 व सीजर आपरेशन के जरिए 93 बच्चों का जन्म हुआ है।  

Dakhal News

Dakhal News 4 April 2020


jabalpur, Weatherchanged,due to moist air, Bay of Bengal

जबलपुर। बंगाल की खाड़ी से आई नमी वाली हवा से शुक्रवार को शहर का मौसम बदल गया। दिन में तेज हवा चली और हल्के बादल सूर्य के आड़े आए। बादलों की आवाजाही पूरे दिन जारी रही। धूप कमजोर होने से दोपहर में गर्मी का असर ज्यादा नहीं रहा। लगातार दूसरे दिन तापमान में गिरावट आयी। दोपहर के समय भी तापमान सामान्य से नीचे बना रहा। मौसम में परिवर्तन से सूरज की किरणे दोपहर में ज्यादा नहीं चुभी। शाम को हवा चलने के साथ ही मौसम सुहाना बना रहा।   सामान्य से दो डिग्री कम हवा की दिशा में परिवर्तन से तापमान सामान्य से दो डिग्री नीचे चला गया। अधारताल स्थित मौसम विज्ञान केन्द्र के अनुसार शुक्रवार को अधिकतम तापमान 35.3 डिग्री सेल्सियस था। न्यूनतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस रेकॉर्ड हुआ। दोनों स्तर पर तापमान सामान्य से दो डिग्री नीचे बना रहा। आद्र्रता सुबह के समय 39 प्रतिशत और शाम को 22 प्रतिशत थीं। पूर्वी हवा चार किलोमीटर प्रतिघंटा की गति से चलीं। प्रदेश में शुक्रवार को दिन में सर्वाधिक अधिकतम तापमान 43 डिग्री सेल्सियस खरगौन में रेकॉर्ड हुआ।   दो दिन बाद बदलाव मौसम विज्ञान केन्द्र में वैज्ञानिक सहायक देवेन्द्र कुमार तिवारी के अनुसार हवा की दिशा परिवर्तित होने से पारे में ज्यादा उछाल नहीं आया। शनिवार को मौसम मुख्यत: शुष्क रहने का अनुमान है। तापमान में वृद्धि हो सकती है। पश्चिमी विक्षोभ का असर दो-तीन दिन में आ सकता है। इसके प्रभाव से 6 और 7 अप्रैल को सम्भाग में कहीं-कहीं बारिश की सम्भावना है।  

Dakhal News

Dakhal News 4 April 2020


ujjain, Case filed ,maulvi,offering prayers ,mosque, violating Ujjain lockdown

उज्जैन। लॉकडाउन और कर्फ्यू का उल्लंघन करते हुए बुधवार रात मस्जिद में लोगों को इकट्ठा कर नमाज पढ़वा रहे मौलवी के खिलाफ पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर लिया। मौलवी के खिलाफ उन्हीं धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया है, जो धाराएं सिंगर कनिका कपूर पर लखनऊ में लगाई गई हैं।    चिमनगंज मंडी पुलिस को बुधवार रात करीब 8.30 बजे सूचना मिली कि आगर रोड स्थित मोहम्मद मस्जिद में नमाज पढ़वाई जा रही है। सूचना मिलते ही चिमनगंज मंडी टीआई जितेंद्र भास्कर पुलिस दल के साथ मस्जिद पर जा पहुंचे। पुलिस ने पाया कि मस्जिद के अंदर 25-30 लोग नमाज पढ़ रहे थे। पुलिस ने जब मौलवी हाजी मोहम्मद यूनुस वफाती खान को ऐसा न करने के लिए समझाया, तो वह पुलिस अधिकारियों से बहस करने लगा। इसके बाद पुलिस ने सख्ती से मस्जिद में एकत्र हुए लोगों को बाहर निकाला और मौलवी के खिलाफ विभिन्न धाराओं के अंतर्गत प्रकरण दर्ज किया गया है। लोगों को मस्जिद से बाहर निकालने के बाद पुलिस ने मस्जिद के मुख्य दरवाजे पर ताला लगा दिया है।    सामने नहीं आए जमात में गए दो लोग दिल्ली की तब्लीगी जमात में शामिल हुए कोरोना संदिग्धों में उज्जैन के भी सात युवक शामिल थे। इनमें से पांच युवकों ने तो पुलिस को अस्पताल में भर्ती होने का प्रमाण देते हुए सेल्फी भेज दी है,  लेकिन महिदपुर के मो. इमरान व एहमद माजिद ने पुलिस से सिर्फ बात की है, सेल्फी नहीं भेजी। पुलिस इनकी लोकेशन पता कर रही है।   

Dakhal News

Dakhal News 2 April 2020


indore, People crowded ,streets,Sanchi milk

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए जिलाधीश मनीष सिंह ने कफ्र्यू लगाकर सात दिनों के लिए सभी तरह की आपूर्तियों पर रोक लगा दी है और आवश्यक सामान घर पहुंचाने की सेवा शुरू की है, लेकिन घर पहुंच सेवा गड़बड़ा गई है। गुरुवार को सुबह शहर के मध्य क्षेत्र के कई इलाकों में बंदी का दूध बांटने वाले विक्रेता घर-घर तक नहीं पहुंचे तो काफी इंतजार करने के बाद कई महिलाएं और पुरुष दूध लेने के लिए सडक़ों पर निकल पड़े। कबूतरखाना, गौतमपुरा, आड़ा बाजार, पंढरीनाथ, मच्छी बाजार सहित कई आसपास के इलाकों में लोग बाजार में दूध की दुकानों पर पहुंचे, लेकिन दुकानें बंद मिली। इस दौरान सांची पार्लर खुले हुए थे, जहां भारी भीड़ जमा हो गई।  दरअसल, पिछले दो-तीन दिनों से बंदी विक्रेताओं की टीमें लोगों के घर-घर जाकर वाहनों से दूध दे रही थी, लेकिन बुधवार शाम से यह व्यवस्था बिगड़ गई। बुधवार शाम के बाद गुरुवार सुबह भी मध्य क्षेत्र के कई इलाकों में बंदी विक्रेता दूध देने के लिए नहीं पहुंचे तो लोग लोग सांची पॉर्लरों और अन्य स्थानों पर दूध लेने के लिए पहुंच गए। पंढरीनाथ थाने के पुलिसकर्मियों ने कई लोगों को फटकार लगाकर गौतमपुरा क्षेत्र से रवाना किया। वहां एक सांची पॉर्लर पर भारी भीड़ लग गई। इसी प्रकार आड़ा बाजार और कबूतरखाना के साथ‑साथ मच्छी बाजार और अन्य क्षेत्रों में भी दूध के लिए मशक्कत होती रही।अधिकारियों का कहना है कि दूध के लिए मध्य क्षेत्र में कई जगह से लोगों की शिकायतें आई थी। कई जगह अधिक भीड़ होने के चलते पुलिस ने सोशल डिस्टेंसिंग के तहत लाइनें लगवाकर लोगों को सांची और अन्न के दूध के पैकेट बंटवाए। अचानक सुबह 8 बजे से साढ़े 10 बजे तक लोग अलग-अलग क्षेत्रों में घूमते हुए एक‑दूसरे से जानकारी ले रहे थे कि कहां दूध मिल रहा है। कई लोग सडक़ों पर तपेली, दूध के बर्तन, केतली लेकर मशक्कत में जुटे रहे।

Dakhal News

Dakhal News 2 April 2020


jabalpur,  West Central Railway ,starts five parcel special trains,supply of essential goods

जबलपुर। रेलवे ने लॉकडाउन में जरुरी सामान आमजन तक पहुंचाने के लिए विशेष मालगाड़ी चलाने का निर्णय लिया है। इसके मद्देनजर पश्चिम मध्य रेलवे प्रशासन ने भी दैनिक आवश्यक वस्तुओं की ढुलाई के लिए स्पेशल पार्सल ट्रेन चलाने का फैसला लिया है। इस ट्रेन से खाने की वस्तुओं, फल, सब्जियां, दवाई, स्वास्थ्य प्रोडक्ट व उपकरण, मास्क, सैनिटाइजर, नमक, चीनी, तेल आदि सामान की ढुलाई होगी। रेल्वे ने इन ट्रेनों के लिए खास निर्देश दिए है कि इन गाडिय़ों में कोई भी यात्रा नहीं की कर सकता है।   पश्चिम मध्य रेल प्रशासन के द्वारा राज्य सरकार के अनुरोध पर जरूरी वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए पांच पार्सल विशेष गाडिय़ों का संचालन किया जा रहा है जो कि निम्न है।   1) रीवा-सिंगरौली-रीवा पार्सल स्पेशल गाड़ी:- यह गाड़ी 02 अप्रैल से 14 अप्रैल 2020 तक रीवा से प्रत्येक मंगलवार, गुरुवार, शनिवार को और सिंगरौली से 03 अप्रैल से 15 अप्रैल 2020 के बीच प्रत्येक बुधवार, शुक्रवार एवं रविवार को चलेगी।   2) रीवा-अनूपपुर-रीवा पार्सल स्पेशल गाड़ी:- यह गाड़ी 01 अप्रैल से 13 अप्रैल 2020 के बीच रीवा से प्रत्येक बुधवार, शुक्रवार और सोमवार को एवं वापसी में अनूपपुर से 02 अप्रैल से 14 अप्रैल 2020 के बीच प्रत्येक गुरुवार, शनिवार एवं मंगलवार को चलेगी।   3) भोपाल-ग्वालियर-भोपाल पार्सल स्पेशल गाड़ी:- यह गाड़ी भोपाल से 01 अप्रैल से 13 अप्रैल 2020 तक प्रत्येक बुधवार, शुक्रवार एवं सोमवार को तथा वापसी में ग्वालियर से 02 अप्रैल से 14 अप्रैल 2020 तक प्रत्येक गुरुवार, शनिवार और मंगलवार को चलेगी।   4) भोपाल-खंडवा-भोपाल पार्सल स्पेशल गाड़ी:- यह गाड़ी 01 अप्रैल से 13 अप्रैल 2020 के बीच भोपाल से प्रत्येक बुधवार शुक्रवार एवं सोमवार को एवं वापसी में खंडवा से 02 अप्रैल से 14 अप्रैल 2020 के बीच प्रत्येक गुरुवार, शनिवार एवं मंगलवार को चलेगी।   5)  इटारसी-बीना-इटारसी पार्सल स्पेशल गाड़ी:- यह गाड़ी इटारसी से 01 अप्रैल से 13 अप्रैल 2020 के बीच प्रत्येक बुधवार, शुक्रवार एवं सोमवार को तथा वापसी में बीना से 2 अप्रैल से 14 अप्रैल 2020 के बीच प्रत्येक गुरुवार, शनिवार एवं मंगलवार को चलेगी।  

Dakhal News

Dakhal News 31 March 2020


jabalpur,  West Central Railway ,starts five parcel special trains,supply of essential goods

जबलपुर। रेलवे ने लॉकडाउन में जरुरी सामान आमजन तक पहुंचाने के लिए विशेष मालगाड़ी चलाने का निर्णय लिया है। इसके मद्देनजर पश्चिम मध्य रेलवे प्रशासन ने भी दैनिक आवश्यक वस्तुओं की ढुलाई के लिए स्पेशल पार्सल ट्रेन चलाने का फैसला लिया है। इस ट्रेन से खाने की वस्तुओं, फल, सब्जियां, दवाई, स्वास्थ्य प्रोडक्ट व उपकरण, मास्क, सैनिटाइजर, नमक, चीनी, तेल आदि सामान की ढुलाई होगी। रेल्वे ने इन ट्रेनों के लिए खास निर्देश दिए है कि इन गाडिय़ों में कोई भी यात्रा नहीं की कर सकता है।   पश्चिम मध्य रेल प्रशासन के द्वारा राज्य सरकार के अनुरोध पर जरूरी वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए पांच पार्सल विशेष गाडिय़ों का संचालन किया जा रहा है जो कि निम्न है।   1) रीवा-सिंगरौली-रीवा पार्सल स्पेशल गाड़ी:- यह गाड़ी 02 अप्रैल से 14 अप्रैल 2020 तक रीवा से प्रत्येक मंगलवार, गुरुवार, शनिवार को और सिंगरौली से 03 अप्रैल से 15 अप्रैल 2020 के बीच प्रत्येक बुधवार, शुक्रवार एवं रविवार को चलेगी।   2) रीवा-अनूपपुर-रीवा पार्सल स्पेशल गाड़ी:- यह गाड़ी 01 अप्रैल से 13 अप्रैल 2020 के बीच रीवा से प्रत्येक बुधवार, शुक्रवार और सोमवार को एवं वापसी में अनूपपुर से 02 अप्रैल से 14 अप्रैल 2020 के बीच प्रत्येक गुरुवार, शनिवार एवं मंगलवार को चलेगी।   3) भोपाल-ग्वालियर-भोपाल पार्सल स्पेशल गाड़ी:- यह गाड़ी भोपाल से 01 अप्रैल से 13 अप्रैल 2020 तक प्रत्येक बुधवार, शुक्रवार एवं सोमवार को तथा वापसी में ग्वालियर से 02 अप्रैल से 14 अप्रैल 2020 तक प्रत्येक गुरुवार, शनिवार और मंगलवार को चलेगी।   4) भोपाल-खंडवा-भोपाल पार्सल स्पेशल गाड़ी:- यह गाड़ी 01 अप्रैल से 13 अप्रैल 2020 के बीच भोपाल से प्रत्येक बुधवार शुक्रवार एवं सोमवार को एवं वापसी में खंडवा से 02 अप्रैल से 14 अप्रैल 2020 के बीच प्रत्येक गुरुवार, शनिवार एवं मंगलवार को चलेगी।   5)  इटारसी-बीना-इटारसी पार्सल स्पेशल गाड़ी:- यह गाड़ी इटारसी से 01 अप्रैल से 13 अप्रैल 2020 के बीच प्रत्येक बुधवार, शुक्रवार एवं सोमवार को तथा वापसी में बीना से 2 अप्रैल से 14 अप्रैल 2020 के बीच प्रत्येक गुरुवार, शनिवार एवं मंगलवार को चलेगी।  

Dakhal News

Dakhal News 31 March 2020


betul, Report , one of two ,suspects , Corona infection ,came negative

बैतूल। बीते दिनों बैतूल जिले में मिले कोरोना के दो संदिग्धों के सेम्पल भोपाल जांच के लिए भेजे गए थे, जिसमें एक की रिपोर्ट रविवार को आ गई है। रिपोर्ट निगेटिव आने से प्रशासन और आम लोगों ने थोड़ी राहत महसूस की है। वहीं, प्रशासन लगातार ऐहितयात बरत रहा है और आम लोगों से भी अपील कर रहा है।    मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जीसी चौरसिया ने बताया कि अब तक बैतूल जिले में कुल 2  कोविड-19 संदिग्ध मरीज भर्ती हुए हैं। इनके सैंपल लिए गए और जांच के लिए भोपाल भेजे गए थे। इनमें से रविवार को एक रिपोर्ट प्राप्त हुई है, जो कि निगेटिव है। उन्होंने बताया कि जिले में विदेश यात्रा करके आए नागरिकों की संख्या- 84 है एवं इनमें से 66 मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण कर लिया गया है। इन 84 नागरिकों में से 18 नागरिकों ने विदेश यात्रा की जानकारी दी है, जो बैतूल जिले के निवासी हैं किंतु अन्य स्थानों पर निवासरत हैं और जिले में नहीं आए हैं। वर्तमान में होम आइसोलेशन में 52 नागरिकों को रखा गया था जबकि होम आइसोलेशन के 14 दिवस पूर्ण किए नागरिकों की संख्या 14 है । इस तरह वर्तमान में कुल 52 नागरिक होम आइसोलेशन में हैं औऱ 14 नागरिक अपनी अवधि पूर्ण कर चुके हैं जिन्हें अभी भी घर में रहकर सावधानी बरतने की सलाह दी गयी है। डॉक्टर चौरसिया ने बताया कि दो मरीजों को कोरोना वार्ड में इसलिए रखा गया है ताकि दूसरे लोग उनके संपर्क में ना आएं। कोरोना वार्ड बनाया ही इसलिए गया है ताकि वहां कोरोना संदिग्धों को रखा जा सके चाहे कोरोना वायरस की जांच रिपोर्ट सकारात्मक आए या नकारात्मक। लक्षणों के आधार पर सुरक्षा की दृष्टि से इन मरीजों को कोरोना  वायरस वार्ड में रखा गया है ताकि किसी भी प्रकार की कोई चूक ना हो। इस तरह की हिदायत भी दी जा रही है ।

Dakhal News

Dakhal News 29 March 2020


ujjain, Corona positives ,number four

उज्जैन। धर्म नगरी उज्जैन के बीचोंबीच स्थित जान्सापुरा पूरे मध्यप्रदेश में सुर्खियां में आ गया है । यहां पर रहने वाले एक ही परिवार के चार सदस्य कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें से एक महिला की मौत भी हो चुकी है।  चीन के वुहान से शुरू हुआ करोना कब उज्जैन तक पहुंच गया यह बात किसी को पता तक नहीं चल पाई । सबसे बड़ी बात यह है कि जान्सापुरा में रहने वाला एक ही परिवार कोरोना वायरस की जद में आ गया। पहले कोरोना पाजिटिव राबीया बी की दर्दनाक मौत हो गई और अब उनके पुत्र, पुत्री और पोता वायरस से संघर्ष कर रहे हैं । कोरोना किस कदर एक दूसरे में फैलता है यह बात किसी से छिपी नहीं है।  जांसापुरा में रहने वाले कुछ और लोगों के सैंपल भी लिए गए हैं । जो राबीया के परिवार के संपर्क में रहे हैं।    दूसरी तरफ जिला प्रशासन की ओर से ऐसे दुकानदारों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है जो नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं । जिला प्रशासन के अधिकारियों ने कई दुकानों को सील कर दिया है । इसके अलावा मुकदमे भी दर्ज किए जा रहे हैं इसलिए दुकानदारों को भी अब नियम के दायरे में रहकर ही दुकान चलाना होगी। अब पुलिस की सख्ती और बढेगी। 

Dakhal News

Dakhal News 29 March 2020


jabalpur,  Corona suspect death, investigation report ,during treatment

जबलपुर। प्रदेश के जबलपुर में रविवार को कोरोना संदिग्ध महिला की ईलाज के दौरान मौत हो गई। महिला के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। फिलहाल, जांच रिपोर्ट नहीं आई है। महिला का पति 10 दिन पहले ही सउदी अरब से लौट कर शहडोल आया था। जिला प्रशासन ने महिला के पूरे परिवार के सैंपल लिए जाने के निर्देश दिए हैं।     जानकारी अनुसार 65 साल की महिला को पांच दिन पहले महिला की तबीयत खराब होने पर परिजनों ने उसे शहडोल के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया था। यहां उसकी हालत में सुधार नहीं होने पर उसे जबलपुर के मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया। ईलाज के दौरान महिला में कोरोना वायरस के जैसे लक्षण मिलने पर डॉक्टरों ने उसे आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर दिया।   शुक्रवार शाम को महिला के सैंपल जांच के लिए भेज दिए गए। महिला के परिवार की ट्रेवल हिस्ट्री की जानकारी लेने पर पता चला कि महिला का पति करीब 10 दिन पहले ही सउदी अरब से लौटकर शहडोल आया है। डॉक्टर महिला का इलाज कोरोना का संदिग्ध मान कर रहे थे। महिला के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। फिलहाल, जांच रिपोर्ट नहीं आई है। रविवार सुबह महिला की मौत हो गई। डॉक्टरों का कहना है कि महिला के सैंपल रिपोर्ट आने के बाद वजह का पता चल सकेगा। जिला प्रशासन ने महिला के पूरे परिवार के सैंपल लिए जाने के निर्देश दिए हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 29 March 2020


Jabalpur, army workshop ,explodes gas cylinder, one soldier dies

जबलपुर। जबलपुर शहर के खमरिया थाना क्षेत्र स्थित सेना की एक वर्कशॉप में शनिवार दोपहर में नाइट्रोजन सिलेंडर में अचानक आग लग गई और वह जोरदार धमाके के साथ फट गया। इस हादसे में मौके पर मौजूद एक सैन्यकर्मी की मौत हो गई, वहीं, तीन अन्य सैन्यकर्मी घायल हुए हैं। घटना के बाद आर्मी के अधिकारियों ने आनन-फानन में घायलों को इलाज के लिए एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया है, जहां उनका इलाज जारी है।  बताया जा रहा है कि आर्मी के वर्कशॉप में शनिवार को दोपहर सैनिक पुरानी गनों की रिपेयरिंग का कार्य रहे थे। इसी बीच पास ही रखे नाइट्रोजन सिलेंडर में अचानक आग लग गई। आग बुझाई जाती, इससे पहले ही सिलेंडर में जोरदार धमाका हुआ और वह फट गया। घटना की जानकारी मिलते ही रांझी सीएसपी देवेश पाठक पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और मामले की जांच शुरू की। इस दौरान मौके पर सेना के अधिकारी भी मौजूद थे।सीएसपी देवेश पाठक ने बताया कि वर्कशॉप में सुधार कार्य के दौरान अचानक नाइट्रोजन गैस का सिलेंडर फट गया, जिसकी चपेट में आने से सैन्य कर्मचारी हवलदार कालूराम (45) की मौत हो गयी। वहीं, तीन अन्य सैन्यकर्मी घायल हुए हैं, जिनका पास के अस्पताल में उपचार जारी है। पुलिस ने मृतक का शव पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले का जांच शुरू कर दी है।

Dakhal News

Dakhal News 28 March 2020


ujjain,  65-year-old woman ,dies in Ujjain,  first death ,Corona

उज्जैन। मध्यप्रदेश में बीती रात कोरोना वायरस से संक्रमित पांच मरीजों की पुष्टि हुई थी। इनमें उज्जैन की एक 65 वर्षीय महिला भी शामिल थी। वह इंदौर के एमवाय अस्पताल में भर्ती थी, बुधवार को दोपहर उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया। इसकी पुष्टि महिला के परिजनों ने की है। कोरोना वायरस से मध्यप्रदेश में यह पहली मौत हुई है।  उज्जैन के जानसापुरा में रहने वाली 65 वर्षीय महिला को गत 22 मार्च को उज्जैन के चैरिटेबल अस्पताल में भर्ती करवाया गया, ज्यादा सर्दी-खांसी के बाद उसे माधव अस्पताल में शिफ्ट किया गया और इसके बाद कोरोना वायरस के लक्षण दिखने के बाद मरीज को इंदौर के एमवाय अस्पताल में भर्ती किया गया, जहां बुधवार सुबह उन्हें कोरोना वायरस पॉजिटिव पाया गया। इसकी पुष्टि उज्जैन कलेक्टर शशांक मिश्र ने की थी। महिला का एमवाय अस्पताल में आइसोलेशन में उपचार किया जा रहा था, जहां बुधवार दोपहर करीब तीन बजे महिला की मौत हो गई। इससे पहले उज्जैन शहर में एक कोरोना वायरस पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद उज्जैन में कर्फ्यू  लगा दिया गया है।    उल्लेखनीय है कि वायरस का संक्रमण मध्यप्रदेश के 6 जिलों में पहुंच चुका है। मंगलवार को इंदौर में चार, उज्जैन और भोपाल में एक-एक संक्रमित मरीज मिले। उज्जैन की महिला की इलाज के दौरान मौत हो गई। यह कोरोना से प्रदेश में पहली और देश में 12वीं मौत है।

Dakhal News

Dakhal News 25 March 2020


seoni, occasion , Chaitra Navratri festival, worshipingmother , homes

सिवनी। भक्ति और आराधना का पर्व चैत्र नवरा़त्र पर्व बुधवार से शुरू हो गया है, लेकिन इस बार वैश्विक महामारी कोरोना के चलते ना कलश यात्राा निकाली गई ना ही विशेष आयोजन हुए। यहां तक कि मंदिरों में पूजा अर्चना करने पर भी प्रशासन द्वारा प्रतिबंधित किया गया है। चैत्र नवरात्र पर्व पर लोग घरों में ही  मां की आराधना कर रहे हैं।  जिला प्रशासन द्वारा सार्वजानिक की गई जानकारी में बताया गया है कि जिले के विभिन्न धर्मगुरुओ एवं धर्मावलंबियों से चर्चा कर यह तय किया गया है कि 25 मार्च से प्रारंभ हुए चैत्र नवरात्र पर्व में आयोजन, जुलूस, रैलियों प्रतिबंधित रहेगी तथा जिला प्रशासन ने जिलेवासियों से अपील की है कि घरों में ही पूजा अर्चन कर अपने और अपने परिवार को सुरक्षित रखें, घर से बाहर न निकले।  सिवनी एवं छिंदवाडा जिले के मध्य में स्थित प्रदेश और जिले के प्रसिद्ध शक्ति सिद्धपीठ के रूप में जाने पहचाने वाले आस्था के केंद्र श्री सिद्ध पीठ षष्टी देवी मंदिर कपुरधा में नवरात्र के दौरान समिति द्वारा किसी भी प्रकार के धार्मिक मेले का आयोजन नही किया जा रहा है तथा शासन के आगामी आदेश तक मंदिर प्रांगण में सभी जनो का प्रवेश वर्जित किया गया है।  श्री सिद्ध पीठ षष्टी देवी मंदिर कपुरधा समिति के श्रीवास्तव परिवार ने जानकारी दी कि मंदिर समिति ने निर्णय लिया है कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए सभी मनोकामना कलश की स्थापना एवं विसर्जन विधिवत मंदिर समिति परिवार द्वारा सम्पन्न किया जावेगा। 

Dakhal News

Dakhal News 25 March 2020


seoni, occasion , Chaitra Navratri festival, worshipingmother , homes

सिवनी। भक्ति और आराधना का पर्व चैत्र नवरा़त्र पर्व बुधवार से शुरू हो गया है, लेकिन इस बार वैश्विक महामारी कोरोना के चलते ना कलश यात्राा निकाली गई ना ही विशेष आयोजन हुए। यहां तक कि मंदिरों में पूजा अर्चना करने पर भी प्रशासन द्वारा प्रतिबंधित किया गया है। चैत्र नवरात्र पर्व पर लोग घरों में ही  मां की आराधना कर रहे हैं।  जिला प्रशासन द्वारा सार्वजानिक की गई जानकारी में बताया गया है कि जिले के विभिन्न धर्मगुरुओ एवं धर्मावलंबियों से चर्चा कर यह तय किया गया है कि 25 मार्च से प्रारंभ हुए चैत्र नवरात्र पर्व में आयोजन, जुलूस, रैलियों प्रतिबंधित रहेगी तथा जिला प्रशासन ने जिलेवासियों से अपील की है कि घरों में ही पूजा अर्चन कर अपने और अपने परिवार को सुरक्षित रखें, घर से बाहर न निकले।  सिवनी एवं छिंदवाडा जिले के मध्य में स्थित प्रदेश और जिले के प्रसिद्ध शक्ति सिद्धपीठ के रूप में जाने पहचाने वाले आस्था के केंद्र श्री सिद्ध पीठ षष्टी देवी मंदिर कपुरधा में नवरात्र के दौरान समिति द्वारा किसी भी प्रकार के धार्मिक मेले का आयोजन नही किया जा रहा है तथा शासन के आगामी आदेश तक मंदिर प्रांगण में सभी जनो का प्रवेश वर्जित किया गया है।  श्री सिद्ध पीठ षष्टी देवी मंदिर कपुरधा समिति के श्रीवास्तव परिवार ने जानकारी दी कि मंदिर समिति ने निर्णय लिया है कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए सभी मनोकामना कलश की स्थापना एवं विसर्जन विधिवत मंदिर समिति परिवार द्वारा सम्पन्न किया जावेगा। 

Dakhal News

Dakhal News 25 March 2020


bhopal,  Initiatives , Bhopal Municipal Corporation, sanitized city

भोपाल। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिये संभाग आयुक्त एवं प्रशासक कल्पना श्रीवास्तव के नगर निगम को हर जरूरी कदम उठाने निर्देशित किया है। इसी क्रम में निगम आयुक्त बी. विजय दत्ता के आदेशानुसार नगर निगम भोपाल द्वारा यु़द्ध स्तर पर निरंतर कार्यवाही की जा रही है। शहर के प्रत्येक क्षेत्र को सैनेटाइज किया जायेगा और इसके लिये निगम ने अपनी 12 सीवेज मशीनों में स्प्रिंकल्स लगाकर भोपाल शहर के मुख्य मार्गों, स्लम बस्ती, रहवासी क्षेत्र, बाजार आदि को सैनेटाइज किया जा रहा है।   सैनेटाइजेशन के लिये 11 स्प्रे मशीन और हाथ से चलने वाले 58 पम्पों से क्षेत्रों में सैनेटाइज किया जा रहा है, जबकि 14 बड़ी फागिंग मशीनों से बस्तियों, रहवासी क्षेत्रों, बाजार आदि में फागिंग की जा रही है। इसके अलावा 15 छोटी हाथ से चलने वाली फागिंग मशीनों से घरों के अंदर, कालोनियों, बस्तियों तथा शासकीय कार्यालयों में निरंतर फागिंग का कार्य किया जा रहा है। 

Dakhal News

Dakhal News 25 March 2020


bhopal,  Initiatives , Bhopal Municipal Corporation, sanitized city

भोपाल। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिये संभाग आयुक्त एवं प्रशासक कल्पना श्रीवास्तव के नगर निगम को हर जरूरी कदम उठाने निर्देशित किया है। इसी क्रम में निगम आयुक्त बी. विजय दत्ता के आदेशानुसार नगर निगम भोपाल द्वारा यु़द्ध स्तर पर निरंतर कार्यवाही की जा रही है। शहर के प्रत्येक क्षेत्र को सैनेटाइज किया जायेगा और इसके लिये निगम ने अपनी 12 सीवेज मशीनों में स्प्रिंकल्स लगाकर भोपाल शहर के मुख्य मार्गों, स्लम बस्ती, रहवासी क्षेत्र, बाजार आदि को सैनेटाइज किया जा रहा है।   सैनेटाइजेशन के लिये 11 स्प्रे मशीन और हाथ से चलने वाले 58 पम्पों से क्षेत्रों में सैनेटाइज किया जा रहा है, जबकि 14 बड़ी फागिंग मशीनों से बस्तियों, रहवासी क्षेत्रों, बाजार आदि में फागिंग की जा रही है। इसके अलावा 15 छोटी हाथ से चलने वाली फागिंग मशीनों से घरों के अंदर, कालोनियों, बस्तियों तथा शासकीय कार्यालयों में निरंतर फागिंग का कार्य किया जा रहा है। 

Dakhal News

Dakhal News 25 March 2020


bhopal, corona infected patients , treated , Bhopal Memorial Hospital

भोपाल । राज्य शासन ने प्रदेश में नोवल कोराना वायरस को संक्रामक रोग घोषित किया है। इसकी रोकथाम में सहयोग के लिये भोपाल मेमोरियल हॉस्पिटल एवं रिसर्च सेंटर को जनहित में राज्य-स्तरीय कोविद-19 उपचार संस्थान चिन्हाकित किया गया है।    इस हॉस्पिटल में केवल कोविद-19 के मरीजों का ही उपचार किया जायेगा। प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण पल्लवी जैन गोविल ने मंगलवार को यह आदेश जारी किया।

Dakhal News

Dakhal News 24 March 2020


bhopal,  CM Shivraj, appeal ,required public ,cooperation,Corona

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राज्य के सभी जनप्रतिनिधियों से अपील की है कि कोरोना वायरस से निपटने में जनसहोग आवश्यक है। इस महामारी को समाप्त करने में अपनी पूरी क्षमता लगाएं।  उन्होंने मंगलवार को विधानसभा परिसर में जनप्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना वायरस की गंभीरता को देखते हुए भोपाल और जबलपुर में कर्फ्यू लगा दिया गया है तथा 36 शहरों में संबंधित जिला प्रशासन द्वारा लॉकडाउन घोषित किया गया है। प्रदेश के सभी प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि इस संक्रामक रोग की रोकथाम के लिए सभी ऐहतियाती कदम उठाये जाएं। सीएम शिवराज ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ‘जनता कर्फ्यू’ की अपील से मिले जनसमर्थन की सराहना करते हुए जनता से अपील की है कोरोना रोग की रोकथाम का एक मात्र उपाय इसकी कड़ी को तोडऩा है। जन प्रतिनिधि विश्वास दिलाये कि यद्यपि संकट है लेकिन जनसहयोग से इस विश्वव्यापी संकट से निपटने में शासन पूरी तरह सक्षम है। प्रशासन के लॉकडाउन आदेश का पूरी तरह पालन करें। अनावश्यक रूप से घरों से बाहर न निकलें। जन सुविधा के लिये सभी आवश्यक सेवाओं को इससे मुख्त रखा गया है।

Dakhal News

Dakhal News 24 March 2020


bhopal,  During curfew, police strictly , Kamal Nath, political advisor, Miglani Home Isolation

भोपाल। राजधानी भोपाल में सोमवार रात से ही कर्फ्यू लगा दिया गया है, इसके बावजूद मंगलवार सुबह से लोग सड़कों पर निकल पड़े। इसके बाद जब पुलिस ने सख्ती दिखाई, तो लोग घरों में चले गए। सुबह 11.00 बजे के बाद से शहर की सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ है।    जनता कर्फ्यू के सफल और टोटल लॉक डाउन के असफल होने के बाद भोपाल में सोमवार देर रात से कर्फ्यू लागू कर दिया गया था। इसके बावजूद मंगलवार सुबह से पुराने शहर में एक बार फिर लोग सड़कों पर निकल आए। वाहनों की आवाजाही शुरू हो गई और कॉलोनियों और बस्तियों की छोटी-छोटी दुकानें खुल गईं। इन पर सामान लेने वालों की भीड़ उमड़ पड़ी। थोड़ी देर में पुलिस की सायरन बजाती गाड़ियां मौके पर पहुंची और लोगों को समझाइश दी। जो लोग नहीं मान रहे थे, पुलिस ने उनको लाठी का खौफ भी दिखाया। सुबह 11.00 बजे के बाद हुई सख्ती के  बाद लोग घरों में चले गए। सड़कों पर इक्का-दुक्का वाहन नजर आ रहे हैं। पुलिस वाहन चालकों को रोककर घर जाने का कह रही है। नहीं मानने पर कार्रवाई की चेतावनी दे रही है।    कमलनाथ के राजनीतिक सलाहकार मिगलानी होम आइसोलेशन मेंपूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के राजनीतिक सलाहकार आर.के. मिगलानी को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने होम आइसोलेशन में रखा है। बताया जा रहा है कि मिगलानी 21 मार्च से किसी बीमारी से पीड़ित थे। मिगलानी के थ्रोट सुआब का नमूना जांच के लिए स्मार्ट सिटी हॉस्पिटल में भेजा गया है। मिगलानी के घर पर स्वास्थ्य विभाग की टीम तैनात की गई है।

Dakhal News

Dakhal News 24 March 2020


seoni, So far, no positive case , corona infection,district

सिवनी। मध्यप्रदेश के सिवनी जिले में अब तक कोई भी कोरोना वायरस संक्रमण का पॉजिटिव केस नहींं मिला हैं। कलेक्टर प्रवीण ने जिले वासियों से किसी भी अपवाह पर ध्यान न देने की अपील की है।   सिवनी कलेक्टर प्रवीण सिंह ने बताया कि जिला प्रशासन द्वारा अन्य देशों एवं राज्यों से सिवनी आये 100 से अधिक व्यक्तियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया है। जिनमें संक्रमण का कोई भी लक्षण नहींं पाया गया है। जिले में अब तक कोई भी कोरोना वायरस संक्रमण का पॉजिटिव केस नहींं मिला है। जिलेवासी संक्रमण प्रभावी स्थानों से यात्रा करके लौटे व्यक्तियों की जानकारी जिला स्तरीय कंट्रोल रूम के नम्बर 07692 - 220323, 227423 दे सकते हैं। प्रशासन द्वारा ऐसे व्यक्तियों का तत्काल परीक्षण किया जायेगा।   संक्रमण प्रभावी क्षेत्रों से यात्रा कर जिले में पहुँचे निवासियों की जानकारी एवं संदिग्ध मरीजोंं को लेकर भी जिला प्रशासन द्वारा प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किये हैंं। आदेशानुसार ऐसे सभी व्यक्तियों की जिला स्तरीय कंट्रोल रूम में अनिवार्यता जानकारी देंं, ऐसे व्यक्ति जिन्हें परीक्षण उपरांत होम आइसोलेशन में निर्देश दिए गए है वो घरों से बिल्कुल न निकलेंं अन्यथा उन पर कठोर दंडात्मक कार्यवाही की जाएगी।नागरिकों से अनुरोध है कि लाक डाउन के निर्देशों का पालन सुनिश्चित कर आप स्वयं सुरक्षित हों अन्य लोगों को भी सुरक्षित रहने के लिए प्रेरित करें ।     आगे बताया गया कि जिले में दैनिक जीवन उपयोगी सभी प्रकार की आवश्यक सामग्रियां उपलब्ध हैं। किसी भी सामग्री की कमी नहीं है । किसी भी सामग्री की कमी परिलक्षित होगी तो उसकी आपूर्ति सुनिश्चित कराई जाएगी । इसके साथ ही जिला प्रशासन नागरिकों को आश्वस्त करता है कि जीवनोपयोगी आवश्यक सामग्री की आपूर्ति हेतु समय-समय पर दुकानें खोलने की अनुमति प्रदान की जाएगी । सावधानी में ही सुरक्षा है । आप स्वयं सुरक्षित रहें, आपका परिवार सुरक्षित रहें एवं अन्य लोग सुरक्षित रहेंं । जिले के सभी नागरिक प्रशासनिक व्यवस्थाओं में सहयोग प्रदान करें ।

Dakhal News

Dakhal News 22 March 2020


anuppur, Staff working, educational institutions ,granted permission ,work from home

अनूपपुर। समस्त शासकीय एवं निजी विद्यालयों तथा शिक्षक प्रशिक्षण संस्थानों में कार्यरत शैक्षणिक एवं गैर शैक्षणिक स्टॉफ को अस्थाई रूप से 31 मार्च तक अपना कार्यालयीन एवं शैक्षणिक कार्य अपने निवास स्थान से सम्पादित करने की अनुमति प्रदान की गई है। रविवार को कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने 22 मार्च से 31 मार्च तक समस्त प्रयोजनों के लिए यह कर्तव्य अवधि मानी जाएगी। यह आदेश शिक्षकों,गैर शिक्षकीय स्टॉफ पर लागू नहीं होगा अथवा उस सीमा तक लागू नहीं होगा जो 22 मार्च से 31 मार्च तक की इस अवधि में अथवा इसके किसी अंशभाग के लिए पूर्व से या वर्तमान में किसी भी स्वरुप के अवकाश पर है।विभाग के अधीन किसी हॉस्टल में अभी भी विद्यार्थी अपरिहार्य कारणों से निवास कर रहे हैं, तो वहां का समस्त स्टाफ यथावत हॉस्टल में अपने कर्तव्य पर कार्यरत रहेगा और ऐसे हॉस्टल में समस्त विद्यार्थियों और स्टॉफ के लिए कोरोना के संक्रमण से बचाव हेतु सोशल डिस्टेंस एवं अन्य समस्त आवश्यक सावधानियां रखी जाना सुनिश्चित किये जाने के निर्देश दिये है। विद्यालयों के शिक्षकों,गैर शिक्षकीय स्टॉफ के लिए यह अनिवार्य होगा कि वे अपना मोबाइल नंबर, लैंडलाइन नंबर एवं निवास का पता कार्यालय में तथा कार्यालय,संस्था प्रमुख, प्रभारी को तत्काल उपलब्ध कराएँगे ताकि अपरिहार्य परिस्थिति में शासकीय कार्य के लिए उन्हें तत्काल कार्यालय में बुलाया जा सके।

Dakhal News

Dakhal News 22 March 2020


jabalpur, March 26, lockdown, under statehood , Corona

जबलपुर। मध्य प्रदेश की संस्‍कारधानी जबलपुर में कोरोना (कोविड-19) के चार संक्रमित मिलने के बाद जिला प्रशासन द्वारा शहर को दो दिन के लिए लॉकडाउन को अब आगे चार दिन के लिए और बढ़ा दिया गया है। इसकी अवधि आगे 26 मार्च को समाप्‍त होगी । जिला प्रशासन ने भरोसा दिया है कि वह लॉकडाउन  की स्‍थ‍िति में अत्यावश्यक सेवाओं और दवा, दूध, सब्जियों, फल एवं राशन जैसी दैनिक आवश्यकताओं की वस्तुओं की कोई कमी प्रशासन नहीं आने देगा।    उल्‍लेखनीय है कि जबलपुर में शुक्रवार को दुबई से लौटे चार मरीज कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। इसके बाद जबलपुर और आसपास के जिलों में हाई अलर्ट जारी किया गया था । साथ ही एतिहातन जबलपुर के आस पास के जिले नरसिंहपुर, बालाघाट, सिवनी, छिंदवाड़ा, में भी लॉकडाउन किया गया था।    कलेक्टर भरत यादव द्वारा लॉकडाउन की अवधि बढाए जाने संबंधी आदेश आज जारी किया गया। उन्‍होंने लॉक डाउन को चार दिन बढ़ाते हुए 26 मार्च तक के लिए करने की घोषणा की। कहा- जरूरी वस्तुओं के लिए सुबह 7 से 9 बजे के बीच छूट दी जाएगी। पब्लिक ट्रांसपोर्ट पूरी तरह से बंद रहेगा। किसी तरह से अफवाह नहीं फैलाने और प्रशासनिक आदेशों का पालन किए जाने का आग्रह भी उनके द्वारा किया गया  है। 

Dakhal News

Dakhal News 22 March 2020


bhopal, Heavy rain ,along with thunderstorms, likely in 19 districts of MP

भोपाल। कई दिनों से पूरे मध्यप्रदेश में लगातार मौसम में परिवर्तन जारी है। पश्चिमी विक्षोभ और चक्रवाती सिस्टम के प्रभाव से शहर का मौसम लगातार पुरिवर्तित हो रहा है। शुक्रवार सुबह से भोपाल में आसमान में बादल छाए हैं, जिससे मौसम में नमी बनी हुई है। राजधानी में बादल छाने से गर्मी का अहसास कम हो रहा है। मौसम विभाग के अनुसार आने वाले अगले 24 घंटों में कई जिलों में बारिश की संभावना बनी हुई है। कहीं कहीं पर बादल भी छा सकते हैं। वहीं कुछ जगहों पर मौसम विभाग ने अलर्ट भी जारी किया है।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा का कहना है कि आने वाले 24 घंटों के अंदर मध्यप्रदेश के कई हिस्सों में बिजली चमकने के साथ तेज बारिश हो सकती है। कई जगहों पर 30-40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है। वहीं छिंदवाड़ा, सिवनी, बालाघाट, पन्ना, टीकमगढ़, छतरपुर, सीहोर, बैतूल व हौशंबाद जिलों में भी हल्की गरज-चमक के साथ बारिश हो सकती है। इन जिलों में मौसम विभाग मे येलो अलर्ट जारी कर दिया है।   इन कारणों से बदल रहा मौसम   मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि पश्चिमी विक्षोभ अब चक्रवाती परिचलन के रुप में बना हुआ है। इससे होती हुई द्रोणिका दक्षिण उत्तर प्रदेश से अब झारखंड तक बनी हुई है। यही कारण है कि कहीं-कहीं पर बारिश की संभावना बनी रहेगी। आने वाली 21 मार्च को मध्यप्रदेश व छत्तीसगढ़ के कई जिलों में गरज-चमक के साथ तेज बारिश की आशंका जताई जा रही है। साथ ही कई जगहों पर ओलावृष्टि भी हो सकती है।   कई जगहों पर खराब है मौसम   इससे पहले गुरुवार को मप्र के कई जिलों में तेज बारिश के साथ ओले गिर हैं। जिनमें दमोह, सीहोर, जबलपुर संभाग शामिल है। यहां पर काली घटाओं ने जोरदार बारिश कर दी है। ठंडी हवाओं के बीच ओले भी गिरे। कई स्थानों पर जैसे मदन महल, गढ़ा, पुरवा, राइट टाउन क्षेत्रों में कंचे के आकार के ओले भी गिरे हैं। वहीं सिहोरा, पनागर, बरेला, भेड़ाघाट में ओलों से फसलों को भारी नुकसान का अनुमान लगाया जा रहा है।

Dakhal News

Dakhal News 20 March 2020


jabalpur,  Corona knocks, Madhya Pradesh, 4 members of same family ,vulnerable to Corona

जबलपुर। मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस ने दस्तक दे दी है। कोरोना से संक्रमण का पहला मामला प्रदेश के जबलपुर शहर में सामने आया है।    प्रारंभिक जानकारी के मुताबिक यहां एक ही परिवार के 4 सदस्‍य कोरोना संक्रमण की चपेट में मिले हैं। आईसीएमआर यानि नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर रिसर्च इन ट्राइबल हेल्थ की रिपोर्ट के बाद शहर में हड़कंप का माहौल बन गया है।    बताया जाता है कि यह परिवार थाइलैंड से लौटकर जबलपुर आया था। संक्रमित परिवार राइट टाउन जबलपुर निवासी ज्वेलर्स का परिवार है।    प्रदेश में कोरोना वायरस से बचाव के लिए लोगों को सावधानी बरतने की सलाह दी जा रही है स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के अनुसार खुद सुरक्षित रहें और परिवार को भी सुरक्षित रखें। भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें। बहुत जरूरी होने पर ही घर से निकलें, बिना कारण भीड़ इकट्ठी न होने दें। परिवार में यदि कोई सर्दी खासी का मरीज है तो उसको तुरंत डॉक्टर को दिखाएं और डॉक्टर की सलाह पर ही दवाई लें।     जबलपुर जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग व नगर निगम द्वारा संक्रमण को रोकने के लिए सभी जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं। सोशल मीडिया पर कोरोना के संबंध में अपूर्ण और भ्रामक जानकारी फैलाने वालों पर भी निगाह रखी जा रही है, इसके लिए पुलिस की साइबर सेल लगातार काम कर रही है। सोशल मीडिया पर झूठी खबरें और भ्रामक सूचना देने वाले पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।  

Dakhal News

Dakhal News 20 March 2020


panna,  Chief assistant clerk, arrested,Panna Tiger Reserve , bribing

पन्‍ना। पन्‍ना टाइगर रिजर्व में पदस्‍थ मुख्‍य लिपिक आलोक खरे एवं उसके साथ कार्यरत अन्‍य लिपिक इनाम अल हक कुरैशी को सागर लोकायुक्त पुलिस की टीम ने शुक्रवार को पांच हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हांथों गिरफ्तार किया है।    जानकारी के अनुसार पन्‍ना टाइगर रिजर्व में पदस्‍थ वन रक्षक ब्रम्‍ह प्रकाश सिंह के वेतन एवं अन्‍य भत्‍तों के बिल पेंडिंग थे, जिसके भुगतान के लिये वह काफी दिनों से परेशान था। कई बार अपने भुगतान के लिए वह मुख्‍य लिपिक से मिला लेकिन रिश्‍वत की मांग की होने के कारण भुगतान नहीं हो सका। इसके लिये पांच हजार रुपये की रिश्‍वत की मांग की गई। जिसकी शिकायत लोकायुक्‍त सागर से आवेदक वन रक्षक ने की। शिकायत की जांच के बाद शुक्रवार को दोपहर लोकायुक्‍त पुलिस ने योजनाबद्ध तरीके से वनरक्षक द्वारा चार हजार रुपये की रिश्वर आलोक खरे को और एक हजार रुपये की रिश्वत इनाम अल हक कुरैशी को देते हुए रंगेहाथों पकड़ा। इस कार्रवाई में लोकायुक्त डीएसपी राजेश कुमार खेड़े और उनकी टीम का योगदान रहा।

Dakhal News

Dakhal News 20 March 2020


bhopal, 11 tigers, 6 lions , 10 leopards ,Van Vihar

भोपाल। राजधानी स्थित वन विहार नेशनल पार्क में हुई वन्यप्राणी गणना के नतीजे आ गए हैं। इसके अनुसार फिलहाल वन विहार में 11 बाघ, 06 सिंह और 10 तेंदुए हैं।    वन विहार नेशनल पार्क में वन्य प्राणियों की गणना-2020 फरवरी माह की 26,27 एवं 28 तारीख को की गई थी। इस गणना के नतीजे वन विहार प्रबंधन ने गुरुवार को जारी किए हैं। इन नतीजों के अनुसार वन विहार में बाड़े में रखे गए वन्य प्राणियों की संख्या 113, स्वतंत्र विचरण करने वाले वन्यप्राणियों की संख्या 1367 है। इनके अलावा यहां अफ्रीकन प्रजाति के 5 कछुए कोर्ट केस के चलते क्वारेंटाइन में भी रखे गए हैं।    गणना के अनुसार बाड़े में रहने वाले प्राणीवन विहार में 11 बाघ, 01 सफेद बाघ, 06 सिंह, 10 तेंदुए, 23 भालू, 02 इंडियन बायसन, 02 लकड़बग्घे, 13 मगर, 03 घड़ियाल, 09 पहाड़ी कछुए और 33 जलीय कछुए बाड़े में रखे गए हैं।    स्वतंत्र विचरण करने वाले वन्यप्राणीगणना के अनुसार वन विहार में 549 चीतल, 385 सांभर, 94 नीलगाय, 43 जंगली सुअर,सुअर, 47 सियार, 93 काले हिरण, 65 मोर, 05 चौसिंगा, 01 चिंकारा, 37 लंगूर, 20 सेही, 06 खरहा, 04 नेवला, 15 बारहसिंगा, और 03 जंगली बिल्ली सहित कुल 1367 वन्यप्राणी खुले में विचरण करते हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 19 March 2020


bhopal, Bhopal board re,moved curtains,blankets , AC coaches , protect from Corona

भोपाल। भोपाल रेल मंडल द्वारा यात्रियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए लगातार सतर्कता बरते हुए निगरानी की जा रही है। इसी क्रम में मण्डल द्वारा कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिये भोपाल मण्डल से चलने वाली सभी ट्रेनों के वातानुकूलित डिब्बों से परदे एवं यात्रियों को दिये जाने कम्बल (अस्थाई तौर पर) हटा दिये गये हैं। इसके साथ ही मण्डल से प्रारम्भ होने वाली सभी ट्रेनों की धुलाई विशेष कैमिकल से की जा रही है। यात्रियों के सम्पर्क में आने वाली हर उस वस्तु जैसे-टेऊन हैण्डल, पायदान, दरवाजों की नॉब, वाशबेसिन के नल, बर्थ पर चढऩे की जंजीरें एवं सीढ़ी, सीट कवर आदि की विशेष प्रकार से साफ-सफाई कर स्प्रे किया जा रहा है।  भोपाल रेल मंडल के जनसम्पर्क अधिकारी आईए सिद्दीकी ने गुरुवार को इस सम्बंध में जानकारी देते हुए बताया कि यात्रियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव की जानकारी देने के लिये स्टेशनों पर लगातार उद्घोषणा की जा रही है। भोपाल एवं इटारसी स्टेशनों पर यात्रियों को कोरोना वायरस के बचाव के लिये वीडियो क्लिप के माध्यम से सचेत किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त यात्रियों को जागरूक करने के लिये प्लेटफॉर्मों, बुकिंग कार्यालय, पूछताछ केन्द्र पर, स्टेशन के सरकुलेटिंग एरिया में पोस्टर एवं बैनर्स तथा टेऊनों के डिब्बों में पोस्टर लगाये गये हैं, जिसमें यात्रियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु सावधानियॉ व निर्देश लिखे गये हैं।   

Dakhal News

Dakhal News 19 March 2020


panna, Auction ,111 pieces of diamonds, shallow mines

पन्ना। मध्यप्रदेश के पन्ना जिले में उथली खदानों से प्राप्त हीरों की नीलामी स्थानीय कलेक्ट्रेट स्थित हीरा कार्यालय में 07 अप्रैल से शुरू होगी। इस नीलामी में उज्जवल, मैले एवं औद्योगिक किस्म के 111 हीरों को रखा जाएगा, जिनका कुल वजन लगभग 129.21 कैरेट है। इनकी अनुमानित कीमत लगभग 39 लाख 62 हजार 988 रुपये आंकी गई है। इच्छुक बोलीदार 5 हजार रुपये की अमानत राशि जमा करके बोली में भाग ले सकते हैं। यह जानकारी जिला कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने गुरुवार को मीडिया को दी।  जिला कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने बताया कि नीलामी 07 अप्रैल से शुरू होगी और सभी हीरों की नीलामी पूर्ण होने तक शासकीय अवकाश को छोडक़र जारी रहेगी। प्रतिदिन सुबह 9 बजे से लेकर 11 बजे तक हीरों का निरीक्षण किया जाएगा और उसके बाद बोली लगाई जाएगी। उच्चतम बोली लगाने वाले बोलीदार को अंतिम निर्णय के तुरन्त बाद नीलामी राशि का 20 प्रतिशत जमा करना होगा। शेष राशि 30 दिन में जमा करना अनिवार्य होगी। हीरा नीलामी नियमों के संबंध में विस्तृत जानकारी हीरा अधिकारी कार्यालय के दूरभाष क्रमांक 07732-252017 पर प्राप्त की जा सकती है।

Dakhal News

Dakhal News 19 March 2020


ratlam, indore, Ratlam Mandal, increases ,platform ticket cost ,due to corona virus

रतलाम/इंदौर। दुनियाभर में महामारी घोषित हो चुके कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के मद्देनजर मध्यप्रदेश में भी सभी तरह के ऐहतियातन कदम उठाये जा रहे हैं। इसी क्रम में रतलाम रेल मंडल द्वारा स्टेशनों पर भीड़ घटाने के उद्देश्य से मंडल के सभी रेलवे स्टेशनों पर प्लेटफार्म टिकट महंगा कर दिया है। नई दरें मंगलवार से लागू भी कर दी गई हैं। अब तक 10 रुपये में मिलने वाला प्लेटफार्म टिकट रतलाम मंडल के सभी स्टेशनों पर 50 रुपये में मिल रहा है।  रतलाम मंडल के जनसम्पर्क अधिकारी जितेन्द्र कुमार जयंत ने मंगलवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि रतलाम मंडल के मुख्य वाणिज्य प्रबंधक द्वारा सोमवार को मंडल के सभी 139 रेलवे स्टेशनों को इस संबंध में आदेश जारी कर दिये थे। मंडल द्वारा प्लेटफार्म टिकट के दाम 10 रुपये से बढ़ाकर 50 रुपये कर दिया गया है और मंगलवार से यह दरें लागू भी कर दी गई हैं। मंडल द्वारा यह निर्णय कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम और रेलवे स्टेशनों की भीड़ कम करने के मद्देनजर लिया गया है।उन्होंने बताया कि वाणिज्य प्रबंधक द्वारा अपने निर्देश में मंडल के सभी स्टेशनों के साथ-साथ ट्रेनों के अंदर पूरी तरह सफाई पर विशेष ध्यान देने को कहा है। इसी के चलते रेलवे सभी बोगियों की सफाई लाइजोल जैसे उपयुक्त कीटनाशक से करवाई जा रहा है।  रतलाम रेल मंडल के अंतर्गत आने वाले स्टेशनों पर बेंच, वेटिंग रूम, बुकिंग ऑफिस, रेलवे कोच आदि को सैनिटाइज किया जा रहा है। इसके अलावा रेलवे कॉलोनियों में भी सतर्कता बरतने की सलाह दी जा रही है।

Dakhal News

Dakhal News 17 March 2020


bhopal, Heavy police force, deployed, MP assembly session ,starts from today

भोपाल। मध्‍यप्रदेश विधानसभा का सत्र सोमवार से शुरू हो गया है। इसे देखते हुए विधानसभा के आसपास एवं शहर में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। राज्यपाल के आदेश के बावजूद आज विधानसभा में होने वाला फ्लोर टेस्ट नहीं होगा। विधानसभा की कार्रवाई के लिए जो सूची जारी की गई है, उसमें इसका कहीं कोई जिक्र नहीं है। जो विषय सूची जारी हुई है, उसमें केवल राज्यपाल का अभिभाषण और उस पर कृतज्ञता ज्ञापन होगा।    इधर, प्रदेश के लोगों की नजरें विधानसभा में होने वाले फ्लोर टेस्ट पर लगी हैं, लेकिन देखना है कि आज होने वाला फ्लोर टेस्ट कमलनाथ सरकार करवाती है या नहीं। इसी बीच भाजपा के सभी विधायक जिन्हें गुरुग्राम में रखा गया था, विधानसभा की कार्रवाई के लिये भोपाल आ गए हैं। विधानसभा में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है और धारा 144 लागू की गई है। 

Dakhal News

Dakhal News 16 March 2020


mahu, Suspected patient , corona virus ,disappeared from hospital, herself

महू। शहर के सरकारी अस्पताल से एक दिन पहले गायब हुई कोरोना वायरस की संदिग्ध मरीज महिला सोमवार सुबह खुद ही वापस अस्पताल आ गई। महिला के परिजन ही उसे सोमवार सुबह अस्पताल लेकर आए। महिला को फिलहाल अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। उसकी जांच रिपोर्ट आज शाम तक आ जाने की उम्मीद है।   बाली से लौटी इस 26 वर्षीय महिला के लक्षण कोरोना वायारस से मिलते जुलते थे। इस कारण महिला को सरकारी अस्पताल में भर्ती करके आइसोलेशन वार्ड में रखा गया था। महिला के खून के नमूने भी जांच के लिये भेजे गए थे। रविवार सुबह तक तो महिला उस कक्ष में थी, मगर 11 बजे बाद वह नजर नहीं आई। इसके पूर्व वह अस्पताल के स्टाफ को यही कहती रही कि वह अब ठीक हो गई और जाना चाहती है, लेकिन उसकी रिपोर्ट नहीं आने से उसे डिस्चार्ज नहीं किया गया था। महिला को सभी जगह तलाश किया गया, उसके घर भी खबर की गई। मगर कहीं पता नहीं चला थी। उसका मोबाइल भी बंद था।  प्रभारी डॉ. एचआर वर्मा की सूचना पर पुलिस उसके घर गई, मगर वह नहीं मिली। इस मामले में सीएमएचओ डॉ. प्रवीण जड़िया ने बताया कि बाली से लौटी युवती को महू आर्मी अस्पताल में आइसोलेट किया गया था। रविवार शाम को सूचना मिली कि यह अस्पताल से गायब है। पुलिस को सूचना दे दी गई। सोमवार शाम तक जांच रिपोर्ट आएगी। इसके बाद महामारी घोषित होने के प्रावधान के तहत एफआईआर भी दर्ज होगी।

Dakhal News

Dakhal News 16 March 2020


ujjain,  Restricted entry , common devotees , Mahakaleshwar temple, banned

उज्जैन। कोरोना वायरस को लेकर जिस तरह से सतर्कता बरती जा रही है, उसके चलते महाकाल मंदिर के पुजारियों-पुरोहितों के साथ मंदिर प्रशासक ने सोमवार को बैठक लेकर महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं। अब महाकालेश्वर मंदिर में भस्मार्ती में श्रद्धालुओं का प्रवेश पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा। पुजारी-पुरोहितों द्वारा नियमित भस्मार्ती परंपरानुसार की जाएगी, वहीं अन्य आरतियां भी सम्पन्न होंगी। गर्भगृह में भी भक्तों का प्रवेश निषेध रहेगा। प्रात: 6 बजे से भक्तों को दर्शन के लिए प्रवेश दिया जाएगा। दर्शन व्यवस्था चलायमान रहेगी। पीतल के बेरीकेड्स से भक्त दर्शन करते आगे बढ़ते जाएंगे। मंदिर प्रशासक सुजान सिंह रावत ने सोमवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि आगामी आदेश तक गर्भगृह में तथा भस्म आरती प्रवेश पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा। परम्परा अनुसार महाकाल मन्दिर के पुजारियों द्वारा भस्मार्ती एवं अन्य आरतियां निर्धारित समयानुसार होगी। उन्होंने बताया कि महाकालेश्वर मन्दिर में प्रतिदिन हजारों श्रद्धालु दर्शन करने आते हैं। स्वास्थ्य सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए आम श्रद्धालुओं के हित एवं कोरोना वायरस के संक्रमण से जान-माल को सुरक्षित रखने के लिये शासन द्वारा जारी एडवायजरी के अनुसरण में मन्दिर प्रबंध समिति ने मंदिर के सभी पुजारी, पुरोहितों से चर्चा कर निर्णय लिया है कि आगामी आदेश तक गर्भगृह एवं महाकाल भगवान की प्रतिदिन प्रात: होने वाली भस्म आरती में श्रद्धालुओं का प्रवेश पूर्णत: प्रतिबंधित किया जाए। भस्मार्ती एवं अन्य आरतियां निर्धारित परम्परा अनुसार पुजारी.पुरोहितों  द्वारा की जाएगी।रातव ने बताया कि मन्दिर में प्रवेश करने वाले सभी दर्शनार्थियों की प्रवेश द्वारों पर स्क्रीनिंग की जाएगी। मन्दिर में आने वाले दर्शनार्थियों का प्रवेश प्रात: 6 बजे से होगा ओर दर्शन व्यवस्था चलायमान रहेगी। मन्दिर परिसर स्थित अन्य मन्दिरों में बांधे जाने वाले रक्षासूत्रए कलावाए धागेए डोरे इत्यादि बांधने पर पूर्णत: प्रतिबंधत रहेगा। 

Dakhal News

Dakhal News 16 March 2020


bhopal,  Inflation allowance, increased , five percent ,state employees

भोपाल। मध्यप्रदेश में सियासी उठा-पटक के बीच रविवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ की अध्यक्षता में मंत्रिपरिषद की बैठक हुई, जिसमें राज्य के सरकारी कर्मचारियों का महंगाई भत्ता पांच फीसदी बढ़ाने का निर्णय लिया गया। यह जानकारी बैठक के बाद प्रदेश के जनसम्पर्क मंत्री पीसी शर्मा ने मीडिया को दी। उन्होंने बताया कि बैठक में कोरोना वायरस को लेकर चर्चा की गई। इसके लिए सीएमएचओ को पूरे पॉवर दिये गये हैं। केंद्र सरकार ने इसे आपदा की श्रेणी में रखा है, इसीलिए मध्यप्रदेश में कई कार्यक्रम स्थगित कर दिए गए हैं। जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने मंत्रिपरिषद की बैठक में लिए गए फैसलों की जानकारी देते हुए बताया कि राज्य सरकार ने कर्मचारियों को जुलाई 2019 से पांच प्रतिशत महंगाई भत्ता (डीए) बढ़ाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। आगामी एक अप्रैल से उन्हें इसका नकद भुगतान किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इसके अलावा बैठक में आदिवासी नेता रामू टेकाम और राशिद सोहेल सिद्दकी को मप्र राज्य लोकसेवा आयोग का सदस्य बनाने का निर्णय लिया गया है। वहीं, मंत्रिपरिषद ने प्रदेश में रेत नियमों में संशोधन को भी मंजूरी दी गई है। नई रेत नीति के तहत निविदा में तीन दिन की अवधि को बढ़ाकर 15 दिन किया गया है। उन्होंने बताया कि बैठक में कोरोना वायरस को लेकर लम्बी चर्चा हुई। पत्रकारों द्वारा कोरोना को चलते विधानसभा सत्र को आगे बढ़ाने को लेकर पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए कहा कि इसका निर्णय मंत्रिपरिषद द्वारा नहीं लिया जाता। सोमवार से विधानसभा का सत्र शुरू होगा और उसी में इसको लेकर चर्चा की जाएगी। उन्होंने यह भी बताया कि जयपुर में कोरोना के मरीज मिले हैं। हमारे विधायक भी जयपुर में थे और यहां आने के बाद उनकी जांच रवाई है। हरियाणा और बेंगलुरु में भी कोरोना के मरीज मिलने के चलते वहां से आने वाले लोगों की भी जांच कराई जाएगी। उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि बेंगलुरु से हमारे विधायक यहां आना चाहते हैं, लेकिन उन्हें आने नहीं दिया जा रहा। उन्हें वहां बंधक बनाकर रखा गया है। सरकार के संकट को लेकर मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि सरकार के पास पूरे नम्बर है। हम फ्लोर टेस्ट में सफल होंगे। 

Dakhal News

Dakhal News 15 March 2020


satna, Satna, soldier martyred,encounter , Maoists, Chhattisgarh

सतना। छत्तीसगढ़ के बस्तर जिले के मारडुम थाना क्षेत्र में शनिवार को जवानों की नक्सलियों के साथ हुए मुठभेड़ में सीएएफ के दो जवान शहीद हो गए। शहीद जवानों में एक जवान देवेंद्र सिंह जनार्दन मध्यप्रदेश के सतना जिला का रहने वाला था। देवेंद्र सिंह के पार्थिव शरीर रविवार को उनके गृहनगर पहुंचेगा, जहां राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार होगा।    सतना जिले के रामपुर बाघेलान तहसील के जनार्दनपुर गांव के रहने वाले शहीद जवान देवेंद्र सिंह छत्तीसगढ़ सीएएफ में प्रधान आरक्षक के पद पर कार्यरत थे और उन्होने वर्ष 2006 में सेना में नौकरी ज्वाइन की थी। जवान के परिवार के अमित सोमवंशी ने बताया कि शहीद जवान देवेंद्र सिंह सोमवंशी के पिता स्व. जयवीर सिंह सोमवंशी छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल में थे और वे भी 12 वर्ष पहले शहीद हो गए थे। जवान ने अपने पीछे अपनी पत्नी पूजा व दो बेटे राज 10 वर्ष व सिद्धू 6 वर्ष को छोड़ गए हैं। शहीद जवान का परिवार अपने ननिहाल सीधी जिले के करौंदिया में रहने लगा है। जनार्दनपुर गांव में फिलहाल शहीद जवान का परिवार नहीं रहता है। जवान का पार्थिव शरीर रविवार को सीधी के करौंदिया गांव पहुंचेगा। जहां उनका पूरे सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा। 

Dakhal News

Dakhal News 15 March 2020


bhopal, State government,cautious , Corona virus

भोपाल।  मध्‍यप्रदेश के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री तरुण भनोत का कहना है कि कोरोना वायरस को लेकर राज्‍य सरकार अलर्ट पर है। लोगों को इस बीमारी से बचाने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। शनिवार को मीडिया से बातचीत करते हुए तरुण भनोत ने कहा कि कोरोना वायरस देश में तेजी से फैल रहा है जो चिंता की बात है।    स्वास्थ्य मंत्री तरुण भनोत ने कहा कि अभी तक मध्यप्रदेश में कोई पाजिटिव मरीज नहीं मिला है। एक संदिग्ध मरीज इंदौर में मिला है,  जिसका समुचित उपचार किया जा रहा है। उन्‍होंने कहा कि प्रदेश में बी संक्रमण का खतरा हो सकता है। यही कारण है कि इस वायरस के बारे में जनजागृति पैदा करने की जरुरत है, ताकि लोग जागरूक हो सकें। उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने एडवाइजरी तो जारी की है लेकिन कोई अन्य मदद कैंद्र हमारी नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा कि मैं केंद्र से निवेदन करना चाहता हूं कि प्रदेश में स्क्रीनिंग के लिए ज्यादा से ज्यादा किट प्रदेश को उपलब्ध कराये जिससे प्रदेश के ग्रामीण इलाको में भी कोरोना की रोकथाम के लिए काम किया जा सके।

Dakhal News

Dakhal News 14 March 2020


bhopal,  Case registered, against 35 unknown people , showing black flag, Scindia,stone peltin

भोपाल। कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के काफिले को शुक्रवार को देर शाम भोपाल में एयरपोर्ट जाते समय कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा रोकने का प्रयास किया गया। इस दौरान उन्हें काले झंडे दिखाए गए और कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा उनके काफिले पर पथराव भी किया गया। इस मामले में भोपाल के श्यामला हिल्स थाना पुलिस ने 30-35 अज्ञात लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है और मामले की जांच शुरू कर दी है। जानकारी के मुताबिक, राज्यसभा का नामांकन दाखिल करने के बाद ज्योरादित्य सिंधिया शुक्रवार शाम को दिल्ली जाने के लिए भोपाल एयरपोर्ट रवाना हुए थे। जब उनका काफिला कमला पार्क और राजा भोज की स्टेच्यू के पास वीआईपी रोड पर पहुंचा, तभी अज्ञात लोगों द्वारा सिंधिया के काफिले को काले झंड़े दिखाए। वहीं, भाजपा का आरोप है कि राजाभोज की प्रतिमा के पास से गुजरते समय उनकी गाड़ी पर पत्थर भी फेंके गए और कई कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उनकी गाड़ी पर चढऩे की कोशिश की। इस मामले को लेकर भाजपा ने देर रात श्यामला हिल्स थाने का घेराव किया और आरोपित कांग्रेस कार्यकर्ताओं के खिलाफ धारा 307 के तहत नामजद एफआईआर दर्ज कराने की मांग की गई। रात 12 बजे तक भाजपा कार्यकर्ता थाने में ही जमे रहे और जमकर हंगामा किया। हालांकि, पुलिस पथराव और गाड़ी पर चढ़ने जैसी घटना से इनकार कर रही है, लेकिन हंगामा बढ़ता देख पुलिस ने 30-35 अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर लिया है और वीडियो के आधार पर मामले की जांच करने की बात कही है।

Dakhal News

Dakhal News 14 March 2020


ashoknagar, Famous Karila fair ,started despite, Corona virus alert

करीला/अशोकनगर। मध्‍यप्रदेश के अशोकनगर जिले के करीला गांव में शनिवार को रंगपंचमी पर तीन दिवसीय मेला शुरू हो गया है। मेले के लिए मां जानकी के दरबार में आकर्षक लाइटों से सजाया गया है, हालांकि प्रशासन द्वारा कोराना वायरस के चलते संक्रमण से बचाव के लिए दिशा-निर्देश भी जारी किए है इसके बावजूद मेले में सुबह से लोगों का आना शुरू हो गया। प्रशासन द्वारा यहां सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं साथ ही कई जगह स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की टीमों को एम्‍बुलेंस के साथ तैनात किया गया है।    विदित हो कि मध्य प्रदेश के अलावा राजस्थान, उत्तरप्रदेश, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, पंजाब, हरियाणा और अन्य प्रदेशों से लाखों लोग करीला धाम पहुंचते हैं।    क्‍या है मान्‍यता   मान्यता है कि भगवान राम ने जब सीता का परित्याग कर दिया था, तब माता सीता करीला में ऋषि वाल्मीकि के आश्रम में आकर रही थीं। इस आश्रम में माता सीता ने लव-कुश को जन्म दिया था। लव-कुश के जन्म पर करीला में खुशियां मनाई गईं और अप्सराओं का नृत्य हुआ था। जिस दिन खुशियां मनाई गई वह रंगपंचमी का दिन था। तभी से यहां राई नृत्य का यह सिलसिला तभी से चला आ रहा है जो आज जारी है। यहां जो भी लोग आते है वे अपनी मन्‍नते मांगते पूरी होने पर यहां आकर नृत्य करवाते हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 14 March 2020


bhopal, Holiday declared, all schools of MP, due to Corona virus

भोपाल। राज्य शासन ने नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) एवं उससे जनित बीमारी से बचाव के लिये प्रदेश के सभी शासकीय एवं निजी स्कूलों में अस्थायी रूप से आगामी आदेश तक अवकाश घोषित किया है। इस संबंध में शुक्रवार को स्कूल शिक्षा विभाग की प्रमुख सचिव रश्मि अरुण शमी ने सभी स्कूलों को निर्देश जारी किये हैं। निर्देश में कहा गया है कि कक्षा पाँचवी और आठवीं की परीक्षाएँ पूर्व निर्धारित कार्यक्रम अनुसार आयोजित की जायेंगी। कक्षा 10वीं और 12वीं की वार्षिक परीक्षाओं (चाहे वे किसी भी सक्षम बोर्ड/प्रबंधन के तत्वावधान में आयोजित की जा रही हों) का आयोजन पूर्व निर्धारित कार्यक्रम अनुसार किया जायेगा। अवकाश अवधि में समस्त शासकीय विद्यालयों में समस्त शिक्षकीय एवं गैर-शिक्षकीय स्टाफ विद्यालय में उपस्थित रहकर शासकीय और अकादमिक कार्य संपादित करेंगे। निजी विद्यालय शिक्षकीय एवं गैर-शिक्षकीय स्टाफ की विद्यालय में उपस्थिति के संबंध में अपने स्तर पर स्वविवेक से निर्णय ले सकेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 13 March 2020


bhopal, Orenj alert, issued , strong winds, Rewa, Shahdol division , Madhya Pradesh

भोपाल। प्रदेश में होली के बाद बदले मौसम के चलते भोपाल सहित अन्य 9 जिलों में शुक्रवार को गरज-चमक के साथ बारिश होने के आसार हैं। वहीं, रीवा, शहडोल संभाग सहित सिवनी, मंडला, बालाघाट, विदिशा, रायसेन, सीहोर जिले में 30 से 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने की संभावना है। इसके साथ ही गरज के साथ बिजली चमकने की आशंका है। इसके लिए मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।   इधर, शुक्रवार को राजधानी में शाम के बाद गरज-चमक के साथ हल्की बौछारें पडऩे की संभावना है। साथ ही 16 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी। वहीं, अधिकतम तापमान 30 तो न्यूनतम तापमान 14 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है।   मौसम वैज्ञानिक एके शुक्ला के अनुसार, बंगाल की खाड़ी में बने पश्चिमी विक्षोभ और नॉर्थ ईस्ट में वेस्टर्न डिस्टर्बेंस आपस में टकराने वाले हैं। इस कारण 13 मार्च को सभी जिलों में बारिश होने की संभावना है। इधर, बादल व बारिश के कारण दिन के तापमान में दो से तीन डिग्री की और गिरावट देखने को मिल सकती है। हालांकि, इस दौरान रात के न्यूनतम तापमान में भी बदलाव होने की संभावना है।   - 2.5 डिग्री गिरा न्यूनतम तापमान   राजधानी में गुरुवार को न्यूनतम तापमान 14.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जो कि सामान्य से 2.5 डिग्री कम रहा। वहीं, पिछले 24 घंटे के दौरान भी 2.5 डिग्री की कमी दर्ज की गई है। बुधवार को रात का तापमान 17.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। इधर, दिन का तापमान 30.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो कि सामान्य से तीन डिग्री कम रहा। पिछले 24 घंटे के दौरान अधिकतम तापमान में 0.2 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई है। बुधवार को अधिकतम तापमान 31 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया था।  

Dakhal News

Dakhal News 13 March 2020


guna, Conflict between, BJP ,increase ,present

गुना। कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया अब भाजपा नेता हो गए हैं। सिंधिया के साथ ही उनके सैकड़ों समर्थक कांग्रेसियों ने भी पंजे का साथ छोडक़र भाजपा का कमल थाम लिया है। राजनीति में सामने आए इस अप्रत्याशित प्रसंग से हर कोई भौचक्का है। इस अप्रत्याशित प्रसंग का प्रभाव प्रदेश की राजनीति के साथ ही देश की राजनीति पर भी आने वाले दिनों में पडऩे की संभावना है और इस प्रभाव से गुना भी अछूता नहीं रहने वाला है।   राजनीति के जानकारों का मानना है कि इससे आने वाले दिनों में जहां भाजपा के लिए जिले में मुश्किलें बढ़ेंगी तो कांग्रेस की राह भी आसान नहीं रहने वाली है। कांग्रेस हाल-फिलहाल इससे साफ होने की स्थिति में पहुँच गई है और अब उसे नए सिरे से खड़े होने के लिए शुरु से कखगघ पडऩा पड़ेगा, वहीं भाजपा में टकराव के हालात बन सकते है। भाजपा और कांग्रेस से परोक्ष रुप से जुड़े तमाम संगटनों पर भी इसका सीधा प्रभाव पड़ेगा तो नेताओं की व्यक्तिगत राजनीति भी प्रभावित होगी। खुद भाजपाजन और सिंधियाई कांग्रेसी भी यह समझ रहे है, इसलिए भले ही ऊपर से वह इस प्रसंग को लेकर उत्साहित दिखाने का प्रयास कर रहे है, किन्तु अंदर ही अंदर अपने राजनीतिक भविष्य को लेकर आशंकित  भी है।    कांग्रेस के लिए फिर खड़े होना मुश्किल   ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा का दामन थामने के बाद उनके समर्थक कांग्रेसियों ने भी भी कांग्रेस को टाटा कर भाजपा में अपनी आस्था व्यक्त की है। इसमें जिला कांग्रेस अध्यक्ष सहित  कांग्रेस से जुड़े तमाम संगठनों के प्रमुख पदाधिकारी भी शामिल है। चूंकि जिले में सिंधिया का प्रभाव अधिक रहा है, इसलिए इन पदों पर विराजने वाले अधिकांश कांग्रेसी उनके ही समर्थक थे। उनके भाजपा में जाने से जिले में कांग्रेस 90 फीसद तक साफ हो गई है। जो कांग्रेसी शेष रह गए है, वह महत्वपूर्ण पदों पर नहीं है। इसलिए कांग्रेस को अब नए सिरे से संगठन को खड़ा करना होगा। जो काफी मुश्किल होगा।    दिग्गी गुट का एकतरफा राज   क्षेत्र की कांग्रेसी राजनीति अब तक पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के इर्दगिर्द ही घूमती आई है। इसलिए दोनों के समर्थकों में गुटबाजी भी देखने को मिलती रही है। जिले की चार विधानसभाओं में गुना-बमौरी में सिंधिया का तो राघौगढ़-चांचौड़ा में दिग्गी का प्रभाव देखने को मिलता रहा है। चूंकि अब जिले में सिंधिया कांग्रेस भाजपा में समाहित हो गई है। इसलिए अब दिग्गी गुट का एकतरफा राज हो गया है। अब तक यहां सिंधिया समर्थक श्रम मंत्री महैन्द्र सिंह सिसौदिया, प्रदेश महासचिव योगेन्द्र लुम्बा, जिला कांग्रेस अध्यक्ष विठ्ठलदास मीना, पूर्व नपाध्यक्ष देवेन्द्र गुप्ता आदि की तूती बोलती आई है तो अब पूर्व जिपं अध्यक्ष सुमेर सिंह गढ़ा, पूर्व विधायक कैलाश शर्मा, हरिशंकर विजयवर्गीय, नुरुल हसन नूर, नरेन्द्र लाहोटी, हीरेन्द्र सिंह, बंटी बना, विजय जैन आदि का सिक्का चलने की संभावना है। संगठन के साथ ही सत्ता की राजनीति में भी यह आगे रहेंगे। जिला कांग्रेस अध्यक्ष सहित विभिन्न संगठनों में अध्यक्ष बनने को लेकर दौड़ भी शुरु हो चुकी है।   

Dakhal News

Dakhal News 12 March 2020


ashoknagar, Millions of devotees, perform Rai dance, Rangpanchami, wish is fulfilled

अशोकनगर। जिले की मुंगावली तहसील स्थित ग्राम करीला में प्रतिवर्ष की भांति इस बार भी रंगपंचमी पर तीन दिवसीय विशाल मेले का आयोजन किया जा रहा है। इस अवसर पर यहां लाखों श्रद्धालुओं के पहुंचने की संभावना है। बताया जाता है कि यहां मनोकामनाएं पूर्ण होने पर श्रद्धालु राई नृत्य कराते हैं। श्रद्धालुओं की सुविधाओं को ध्यान में रखकर सुरक्षा व्यवस्था एवं अन्य सुविधाओं के व्यापक इंतजाम किए जा रहे हैं। कलेक्टर डॉ. मंजू शर्मा ने करीला धाम मेले में व्यापक व्यवस्थाएं करने के निर्देश अधिकारियों को दिये हैं। उन्होंने कहा है कि करीला मेला धार्मिक आस्था का केन्द्र है। आस्था एवं श्रृद्धा का केन्द्र माता जानकी करीला धाम के वार्षिक मेले में आने वाले दर्शनार्थियों एवं श्रृद्धालुओं को किसी भी प्रकार की परेशानी न हो, ऐसी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की गई है। कोरोना वायरस को दृष्टिगत रखते हुए मेला स्थल पर 24 घण्टे ओपीडी का संचालन रहेगा। साथ ही 24 पैरामेडिकल टीम एम्बुलेंस तथा स्क्रीनिंग व्यवस्था रहेगी। उन्होंने बताया कि करीला में पेयजल की समुचित व्यवस्था कराई गई है। पेयजल के लिए 250 टेकरों की व्यवस्था रहेगी। साथ ही 2 नए नलकूप खनन कराए गए हैं, जिससे पानी की सप्लाई होगी। करीला मेला में स्वच्छता को ध्यान  में रखते हुए पॉलीथिन को प्रतिबंधित किया गया है। सूखा एवं गीला कचरा के निष्पादन के लिए व्यवस्था की गई है। उन्होंने बताया कि नारियल, प्रसाद एवं अगरबत्तियों के लिए अलग से स्थान निर्धारित किया गया है।   पुलिस अधीक्षक रघुवंश सिंह भदौरिया ने बताया कि करीला मेला में सुरक्षा व्यवस्था को दृष्टिगत रखते हुए 1700 पुलिस जवानों की तैनाती की जाएगी। साथ ही होमगार्ड, नगर रक्षा तथा ग्राम रक्षा समितियों की सदस्य सुरक्षा व्यवस्था में सहयोग करेंगे। सुरक्षा व्यवस्था को दृष्टिगत रखते हुए  6 अस्थाई चौकियां बनाई गई है। मेले की निगरानी के लिए सीसीटीव्ही केमरे लगाए हैं। उन्होंने बताया कि मेले में सादी वर्दी में पुलिस जवान तैनात रहेंगे, जो संदिग्ध गतिविधियों पर पैनी निगाह रखेंगे।मां जानकी के दर्शन कर लाखों श्रद्धालुओं लेते हैं आशीर्वाद    रंगपंचमी पर सुबह से ही श्रद्धालुओं का करीला धाम आना प्रारंभ हो जाता है। रंग पंचमी के दिन व रात में लाखों श्रद्धालु मॉ जानकी के मंदिर में दर्शन लाभ लेकर आशीर्वाद लेते हैं। मन्नतें पूरी होने पर हजारों श्रद्धालु मंदिर परिसर के बाहर राई नृत्य करवाते हैं। करीला के मुख्य मंदिर में मां जानकी के साथ-साथ महर्षि वाल्मीकि व लव-कुश की प्राचीन प्रतिमाएं स्थापित हैं।मां जानकी दरबार की भभूति से फसलों के होते हैं रोग दूरमां जानकी माता के दरबार में हजारों श्रद्धालु आते हैं, दर्शन लाभ लेकर वे मां जानकी दरबार की भभूति अपने साथ ले जाते हैं। इस भभूति को फसल के समय खेतों में फसलों पर छिडक़ी जाती है। यदि फसल में इल्ली लग जाती है तो भक्तजन मां के दरबार की भभूति खेतों में डालते हैं। इस भभूति से फसलों में लगे रोग एवं इल्ली दूर हो जाती है।राई नृत्य की रहती है धूमकरीला धाम में मान्यता है कि जिनकी सन्तान न हो, यहां आकर मन्नतें मांगे तो उसकी मुराद मां जानकी पूरी करती हैं। मुराद पूरी होने पर श्रद्धालु यहां आकर अपनी श्रद्धानुसार राई नृत्य करवाते हैं। क्षेत्र में यह लोकोक्ति प्रचलित है कि लव व कुश के जन्म के बाद मॉ जानकी के अनुरोध पर महर्षि वाल्मीकि ने उनका जन्मोत्सव बड़ी धूमधाम से मनाया था। जिसमें स्वर्ग से उतरकर अप्सराएं आई थी तथा उन्होंने यहां नृत्य किया था। वही जन्मोत्सव आज भी रंगपंचमी पर यहां मनाया जाता है, जिसमें हर वर्ष सैकड़ों नृत्यांगनाएं यहां राई नृत्य प्रस्तुत करती हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 12 March 2020


jabalpur, President Ramnath Kovind, will visit Jabalpur,two-day stay

जबलपुर/भोपाल। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद आगामी 20 मार्च को मध्यप्रदेश की संस्कारधानी जबलपुर के दो दिवसीय प्रवास पर रहेंगे। वे यहां आगामी 20 मार्च को रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय के 32वें दीक्षांत समारोह मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल होंगे, जबकि 21 मार्च को मानस भवन में राज्य न्यायिक अकादमी के रजत जयंती समारोह में शिरकत करेंगे। राष्ट्रपति के संभावित जबलपुर दौरे को लेकर जिला प्रशासन द्वारा व्यापक तैयारियां की जा रही हैं।  संयुक्त जनसम्पर्क संचालक अतुल खरे ने गुरुवार को इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द 20 और 21 मार्च को जबलपुर प्रवास पर रहेंगे। उनके प्रस्तावित दौरे के मद्देनजर रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय और मानस भवन भवन में तैयारियां की जा रही हैं। कलेक्टर भरत यादव, नगर निगम आयुक्त आशीष कुमार, मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय के रजिस्ट्रार जनरल आरके वाणी एवं अन्य प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा तैयारियों का नियमित जायजा लिया जा रहा है। वहीं, प्रदेश के मुख्य सचिव एसआर मोहंती ने भी राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द के जबलपुर आगमन को लेकर निर्देश दिए हैं कि सभी व्यवस्थाएं चाक-चौबंद रहना चाहिए, इनमें कोई चूक नहीं हो। सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध रहे। प्रस्तावित रूट के ट्रैफिक में तनिक भी व्यवधान नहीं होना चाहिए। सडक़ें पूरी तरह दुरुस्त रहना चाहिए। उन्होंने सभी अधिकारियों सजगता और बेहतर समन्वय से तैयारियों को अंजाम देने और वरिष्ठ अधिकारियों को तैयारियों की मॉनीटरिंग करने के निर्देश दिये हैं, साथ ही कहा है कि सभी तैयारियां समय पर पूरी कर ली जाएं।

Dakhal News

Dakhal News 12 March 2020


bhopal,  Scindia cabin, nameplate removed,Congress office , uprooted

भोपाल। पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बुधवार दोपहर में भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली। इसके साथ ही कांग्रेस पार्टी से उनका करीब 17 साल पुराना नाता भी टूट गया। इसके साथ ही भोपाल में कांग्रेस कार्यालय स्थित सिंधिया के कैबिन को भी हटा दिया और उनके दफ्तर में लगी उनकी नेमप्लेट को भी उखाडक़र फेंक दिया गया। भोपाल स्थित कांग्रेस कार्यालय में ग्राउंड फ्लोर में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और संजय सिंह के साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया का भी केबिन बना हुआ था, लेकिन उनके भाजपा में शामिल होते ही पार्टी कार्यकर्ताओं ने रोष व्यक्त करते हुए उनके कैबिन को हटा दिया। कार्यकर्ताओं ने उनकी नेमप्लेट को भी उखाड़ कर फेंक दिया। इस दौरान जोरदार प्रदर्शन कर कांग्रेस कार्यालय के बाहर सिंधिया का पुतला भी फूंका गया।गौरतलब है कि सिंधिया मध्यप्रदेश कांग्रेस चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष थे। उन्हें पार्टी ने केबिन के साथ-साथ स्टॉफ भी दिया था, लेकिन सिंधिया इस केबिन में केवल एक या दो बार ही बैठे थे। बाकी समय तो केबिन के बाहर ताला ही लटका रहता था। बताया जा रहा है कि अब यह केबिन किसी अन्य नेता को दिया जाएगा।

Dakhal News

Dakhal News 11 March 2020


bhopal, collectors , Guna-Gwalior,changed, total of seven IAS

भोपाल। मध्यप्रदेश में आए सियासी भूचाल के बीच बुधवार को ज्योतिरादित्य सिंधिया ने काँग्रेस छोड़ जैसे ही भाजपा का दामन थामा। तो इसी उठा-पटक के बीच मध्यप्रदेश में एक बड़ा प्रशासनिक फेरबदल हुआ हो गया। राज्य सरकार ने ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रभाव वाले इलाकों ग्वालियर और गुना के कलेक्टरों का तबादला कर दिया है। इसी के साथ नीमच और विदिशा के कलेक्टर भी बदल दिए गए हैं।    सरकार ने कलेक्टर अनुराग चौधरी और गुना कलेक्टर भास्कर लक्षकार का भी तबादला कर दिया है। दोनों सिंधिया की पसंद के अधिकारी माने जाते थे। जिनकी जगह अब  एस. विश्वनाथन को गुना कलेक्टर की जिम्मेदारी सौंपी है और कौशलेंद्र विक्रम सिंह को कलेक्टर ग्वालियर की।    हटाये गए ग्वालियर कलेक्टर चौधरी को उप सचिव मंत्रालय बनाकर भेज दिया है।  इसी तरह सिंधिया के क्षेत्र गुना में कलेक्टर भास्कर लक्षकार को भी उप सचिव मंत्रालय बनाया गया है। अभी उन्हें विभागों का आवंटन नहीं हुआ है।  मतलब साफ है कि प्रदेश में सियासी घटनाक्रम के बीच सरकार का यह बड़ा कदम है।  आने वाले चंद घंटों में प्रदेश में प्रशासनिक स्तर पर और भी फेरबदल होने की संभावना है।    इमरती से पंगा लेने वाली एसडीएम लौटीं   सिंधिया समर्थक मंत्री इमरती देवी से विवाद के कारण हटाई गई जयति सिंह को फिर से डबरा का एसडीएम बना दिया गया है। इसी तरह ग्वालियर (मुरार) और मुरैना (सबलगढ़) के एसडीएम को बदला गया है।  जयति सिंह को फिर से इमरती के निर्वाचन क्षेत्र डबरा का एसडीएम बना दिया गया है। इमरती देवी से विवाद के बाद उन्हें हटा दिया गया था.। इसी तरह अंकिता धाकरे को सबलगढ़ का एसडीएम बनाया गया है।    राज्य सरकार ने 7 आईएएस अफसरों को बदला जीतेंद्र सिंह राजे - कलेक्टर नीमच एस विश्वनाथन - कलेक्टर गुना कौशलेंद्र विक्रम सिंह - कलेक्टर ग्वालियर अनुराग चौधरी - उप सचिव मंत्रालयभास्कर लक्षकार - उप सचिव मंत्रालय पंकज जैन- कलेक्टर विदिशा अनुराग वर्मा - कलेक्टर हरदा बनाया है।

Dakhal News

Dakhal News 11 March 2020


bhopal,Watch for Holi, tonight moon , appear brighter and bigger

भोपाल। होलिका दहन के समय यानी आज (सोमवार) रात हम आसमान में सुपरमून के दीदार करेंगे। इस दौरान आम पूर्णिमा की तुलना में चंद्रमा ज्यादा चमकदार और बड़ा दिखाई देगा। दरअसल होलिका दहन की रात चांद की दूरी पृथ्वी से तीन लाख 57 हजार 404 किलोमीटर होगी और यह साल का दूसरा सुपरमून होगा। इससे पहले माघ माह की पूर्णिमा का चांद भी सुपरमून था।  भोपाल की नेशनल अवार्ड से सम्मानित विज्ञान प्रसारक सारिका घारू ने सोमवार को बताया कि आज का चंद्रमा बेह खास होगा। फाल्गुन पूर्णिमा की रात साल की दूसरी सबसे चमकदार रात बनाने जा रही है। पृथ्वी से चंद्रमा की दूरी महज तीन लाख 57 हजार 404 किलोमीटर होगी, इसलिए यह सुपरमून होगा। उन्होंने बताया कि चंद्रमा सोमवार शाम 6.10 बजे पूर्व दिशा में उदित होकर मंगलवार को सुबह 6.21 बजे पश्चिम में अस्त होगा। उन्होंने बताया कि अंडाकार पथ पर पृथ्वी की परिक्रमा करता पूर्णिमा का चंद्रमा जब तीन लाख 61 हजार 885 किलोमीटर से कम दूरी पर होता है तो उसे सुपरमून कहा जाता है। यह माइक्रोमून की तुलना में 14 प्रतिशत बड़ा और 30 प्रतिशत ज्यादा चमकदार दिखेगा।सारिका ने बताया कि रात्रि समाप्ति पर जब यह सुपरमून अस्त हो रहा होगा तो पूर्वी आकाश में जूपिटर, सेटर्न, मार्स और मरकरी एक साथ आकाश में दिखकर अपना रंग भर रहे होंगे। पश्चिमी देशों में 99.7 प्रतिशत चमक के साथ के इस सुपरमून को क्रो मून, क्रस्टमून, सुगरमून, वर्म मून का नाम दिया गया है। सारिका ने बताया कि सुपरमून को यादगार बनाने के लिए क्षितिज से उदित हो रहे चंद्रमा की फोटोग्राफी की जा सकती है। मून इलुजन की घटना के कारण चंद्रमा विशाल गोले के रूप में दिखेगा। सुपरमून के सामने होली थीम पर भीड़ से दूर किसी वृक्ष, इमारत की फोटोग्राफी कर अपनी फोटो पर हम हजारों लाइक्स पा सकते हैं।

Dakhal News

Dakhal News 9 March 2020


sehore, Collector and SP, lashed out , beat of drums,Bhagoria Fair

सीहोर। आदिवासी अंचल में मनाया जाने वाला भगोरिया पर्व अपने पूरे सबाब पर है। इछावर के बिलकिसगंज क्षेत्र में भगोरिया पर्व पूरे सबाब पर देखने को मिलता है। सोमवार को भगोरिया मेले में पहुंचे जिले के कलेक्टर अजय गुप्ता और एसपी शिशेन्द चौहान वहां मौजूद लोगों के साथ मेले में ढोल की थाप पर अपने आप को रोक नही पाए और जमकर थिरके।   आदिवासियों का पारंपरिक पर्व भगोरिया की शनिवार को शुरुआत हो गई। सोमवार को बिलकिसगंज में आदिवासी समाज के लोग बड़े उत्साह के साथ  ढोल-नगाढ़ों की थाप पर नृत्य और गीत गाते हुए नजर। मेले में मौजूद जिस किसी ने भी आदिवासियों का पारंपरिक नृत्य देख वह मंत्रमुग्ध हो गया। मेले में आने वाले लोग हाट बाजार में पहुंचकर जमकर चीजों की खरीदारी कर रहे है। वहीं कई ने एक दूसरे को गले मिलकर और मिठाई खिलाकर इसकी बधाई दी।   मेले मे रंग-बिरंगे परिधानों मे आदिवासी युवक-युवतियां झूले, चकरी का आनंद लेते दिखाई दिए। वहीं बांसुरी की तान फाल्गुन मास का सुरों से जैसे स्वागत करती प्रतीत हुई। मेले में ढोल-मादल की थाप पर आदिवासी युवक-युवतियां जमकर थिरकीं। टोलियां मेले की खूबसूरती में चार चांद लगा रही थीं। इस बार डीजे की अगुवाई में जुलूस निकला गया, जिसमें आदिवासी समाज प्रमुख साफा बांधकर निकले। समाज का होली पूर्व लगने वाला भगोरिया मेला महत्वपूर्ण होता है। मेले में लगे झूलों का आदिवासी बच्चें, महिलाएं व पुरुष लुत्फ उठाते नजर आए। इस दौरान उन्होंने जमकर खरीदारी की।   मेले में दिखा परंपरा और अधुनिकता का मिश्रण मेले में परंपरा और आधुनिकता का मिश्रण देखने को मिला। भगोरिया हाट मे परंपरागत आदिवासी वेशभूषा में युवतियां पहुंची तो वहीं युवक आधुनिक जींस-शर्ट के परिधान में दिखाई दिए। मेले में आदिवासी गोदना प्रथा भी दिखाई दी। महुआ की मंदिरा भी मेले में मादकता घोले रही। उम्र दराज लोगों पर भी मदिरा के सांथ भगोरिया हाट का नशा छाया दिखाई देता रहा।     

Dakhal News

Dakhal News 9 March 2020


bhopal, Appeal, Collector , Gaukastha ,Holika Dahan

भोपाल। भोपाल कलेक्टर तरूण पिथोड़े ने जिले के नागरिकों से अपील की है कि इस बार होलिका दहन में लकड़ी का उपयोग नहीं करते हुए अधिकाधिक गौकाष्ठ का उपयोग करें। उन्होंने कहा है कि जिले की शासन से अनुदान प्राप्त गौशालाएं गौकाष्ठ का निर्माण कर शवदाह गृहों एवं लकड़ी के टालों पर इसका विक्रय कर रोजगार का जरिया बनाया जा सकता है। इसी प्रकार सेन्ट्रल जेल भोपाल के कैदियों को भी गौकाष्ठ निर्माण कराकर रोजगार से जोड़ा गया है। इसके लिए गौकाष्ठ निर्माण की मशीन जेल परिसर में स्थापित की गई है। उन्होंने कहा है कि पर्यावरण संरक्षण प्रदेश के लिए स्थाई जरूरतों में से एक है। पर्यावरण के संरक्षण, बचाव और हरा भरा शीतल प्रदेश हो इसके लिए शासन प्रशासन हर संभव प्रयास कर रहा है। पेड़ों को कटने से बचाने के लिए गौकाष्ठ आधारित लकड़ी, कंडे और अन्य संसाधन आज पर्यावरण को सामान्य स्थिति में लाने के लिए उपयोग में लाए जा रहे हैं। गौकाष्ठ के उपयोग से सघन जंगल, जलवायु और पर्यावरण को बचाने में मदद मिलेगी। गौकाष्ठ आधारित वस्तुएं पर्यावरण को नुकसान से बचाने के लिए उपयोग में लाई जा रही हैं। इस ओर कईं सामाजिक संस्थाएं, समाजसेवी भी अपना योगदान कर रहे हैं।कलेक्टर ने कहा है कि गौकाष्ठ के उपयोग से जहां पर्यावरण को नई ऊर्जा मिल रही है वहां इसके उपयोग से पर्यावरण और बेवक्त बदलते मौसम की प्रतिकूल परिस्थिति को बदलने में मदद मिल रही है। गौकाष्ठ के उपयोग से जहां पेड़ों को कटने से बचाने में मदद मिलेगी वहां इसके उपयोग से रोजगार के नवीन अवसरों का सृजन हो सकेगा। साथ ही विभिन्न संस्थाओं को, आजीविका मिशन और गौशालाओं को पर्याप्त व्यवस्था के साथ साथ उनकी आर्थिक स्थिति में भी बदलाव लाया जा सकेगा। महिलाओं को भी रोजगार से जोड़ा जा सकेगा। इससे शासन प्रशासन की विभिन्न योजनाओं का लाभ विभिन्न संस्थाओं और शासकीय अशासकीय गौशालाओं को भी मिल सकेगा।क्या है गौकाष्ठगाय के गोबर से निर्मित कंडे रूपी लकडिय़ां हैं। गौकाष्ठ के उपयोग से वातावरण में कार्बनडाई आक्साईड की मात्रा भी कम होती है और गौकाष्ठ की केलोरिक वेल्यू लकड़ी से अधिक और घनत्व ज्यादा होता है जो पर्याप्त मात्रा में ईधन के लिए भी अनुपयोगी है। गौकाष्ठ निर्मित वस्तुएं प्रदूषण को रोकने, बढ़ती जरूरतों के लिए उपयोगी साबित हो रही हैं। गौकाष्ठ दैनिक जीवन में भी बहुतायत उपयोगी साबित हो रही है, साथ ही कईं कार्यक्रमों में भी इसकी उपयोगिता प्रमाणित है। गौकाष्ठ के उपयोग से प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार के नए अवसर प्राप्त होंगे। साथ ही पूरे प्रदेश में लकडिय़ों एवं अन्य वस्तुओं के जलाने से पर्यावरण को बचाया जा सकेगा। पेड़ों की अत्यधिक कटाई को रोकने में मदद मिलेगी एवं इसके दोहरे उपयोग से हम पर्यावरण के संरक्षण में भागीदार बनेंगे और वातावरण को शुद्ध बना सकेंगे।होली पर बरतें सावधानी, केमिकल युक्त रंगों के इस्तेमाल से परहेज कर खेले सूखी होलीवहीं, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एमयू खान ने बताया कि आगामी पर्व होली मनाने में बरती जाने वाली किसी भी प्रकार की असावधानी आंखों के लिए खतरा साबित हो सकती है। उन्होंने केमिकल युक्त रंगों का इस्तेमाल न करने एवं कोरोना वायरस से बचाव हेतु सूखी होली खेलने की आमजन से अपील की है। उन्होंने बताया कि घटिया व केमिकल युक्त रंगों का इस्तेमाल और मुंह पर पानी फेंकना आंखों को नुकसान पहुंचा सकता है। आंखें शरीर का अहम अंग है, इसलिए सभी को सावधानी बरतनी चाहिए ताकि होली के रंग, बदरंग न हों। होली पर्व पर हर्बल रंगों का ही इस्तेमाल करें। केमिकल युक्त रंगों से कई तरह के त्वचा संबंधी रोग हो सकते हैं। उन्होंने कहा है कि पिचकारी मुंह पर कतई न मारे, आंख में तेजी से पानी लगने से कोर्नियां पर जख्म हो सकता है। गंदे पानी का बिलकुल भी प्रयोग न करे क्योंकि इससे आंख में इंफेक्शन हो सकता है। जिन बच्चों को आंखों पर चश्मा चढ़ा हुआ है वे चश्मा उतारकर होली खेलें। होली के हुड़दंग में चश्मा टूट सकता है और उसका कांच आंख में भी घुस सकता है। यदि आप कॉन्टैक्ट लेंस पहनते हैं तो होली खेलने से पहले उन्हें निकालकर कर रख दें। चलती गाडिय़ों पर रंग न डालें। इससे दुर्घटना की संभावना रहती है।

Dakhal News

Dakhal News 9 March 2020


coronavairus madhypradesh

    स्कूल में असेंबली नहीं होगी व समर कैंप नहीं लगेगा     कोरोना वायरस (कोविड-19) का प्रकोप बाढ़ रहा हैं | मध्यप्रदेश में कोरोना के चलते अलर्ट जारी कर दिया गया है। वायरस से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने सभी अधिकारी-कर्मचारियों की छुटि्यां रद्द कर दी हैं। प्रदेश में होने वाला आइफा अवार्ड भी रद्द कर दिया गया हैं | स्वस्थ विभाग ने संचालनालय स्तर पर भी कुछ अधिकारियों को संविदा नियुक्ति देने की तैयारी कर ली है।  कोरोना वायसर का असर बच्चों पर ना आये इस बात को ध्यान में रखते हुए संक्रमण से बचाव के लिए सरकारी और निजी स्कूलों में प्रार्थना सभा का आयोजन बंद किया जाएगा। असेंबली व समर कैंप भी इस बार नहीं लगाए जायेंगे । इस संबंध में मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एमएचआरडी) ने मध्य प्रदेश स्कूल शिक्षा विभाग को आदेश दिए हैं कि स्कूलों में भीड़ एकत्रित न होने दी जाए। अभी तक 19 सैंपलों की जांच की जा चुकी हैं जो निगेटिव आई है। कोरोना से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने शासन से 10 करोड़ रुपये का बजट मांगा है। विभाग के अफसरों ने कहा कि यह राशि मास्क, सैनिटाइजर आदि सामान खरीदने के लिए होगी।

Dakhal News

Dakhal News 7 March 2020


CM kamalnath

    यादव महासभा के प्रांतीय अधिवेशन में मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ   मुख्यमंत्री  कमल नाथ ने कहा है कि आज ऐसी शक्तियों को भी पहचानना जरूरी है, जो देश को बाँटने का काम कर रही हैं। उन्होंने कहा कि भारत की संस्कृति अनेकता में एकता की संस्कृति है। इसकी असली शक्ति आध्यात्मिक शक्ति है, जो देश को बांधे रखती है और आगे बढ़ाती है। कमल नाथ बिट्टन मार्केट दशहरा मैदान में यादव महासभा मध्यप्रदेश के प्रांतीय अधिवेशन को संबोधित कर रहे थे।   कमल नाथ ने कहा कि यादव समाज हर क्षेत्र में जागरूक समाज है। जागरूक समाज होने के नाते यादव समाज की बुजुर्ग और नौजवान पीढ़ी का कर्तव्य है कि देश के मूल्यों को पहचाने। नई पीढ़ी को देश के सांस्कृतिक मूल्यों से परिचित कराएं, इससे जोड़े रखें। उन्होंने कहा कि विश्व में भारत एकमात्र देश है, जो विविधताओं के बावजूद एक झण्डे के नीचे शान से खड़ा है।   मप्र की नई पहचान बनाने आगे आयें युवा   मुख्यमंत्री ने कहा कि बुजुर्ग और नई पीढ़ी में बहुत अंतर है। नई पीढ़ी की पहुंच तकनीकी और ज्ञान तक पहुंच है। नई पीढ़ी सिर्फ आगे बढ़ने के अवसर चाहती है। उनमें क्षमता और प्रतिभा दोनों है। मुख्यमंत्री ने कहा कि नया मध्यप्रदेश बनाना और इसकी नई पहचान बनाना चुनौती है। मध्यप्रदेश की नई पहचान पर हर नागरिक को गर्व होना चाहिए। हर क्षेत्र में मध्यप्रदेश की नई पहचान बने चाहे वह आर्थिक, सामाजिक और राजनीतिक क्षेत्र हो। उन्होंने कहा कि ज्यादा से ज्यादा आर्थिक गतिविधियां बढ़ाकर रोजगार के अवसर युवाओं का देना सबसे पहली प्राथमिकता है। रोजगार निर्माण आर्थिक गतिविधि का ही एक आयाम है। यादव समाज की भूमि उपलब्ध कराने एवं अन्य मांगों के संबंध में मुख्यमंत्री ने कहा कि वे यादव समाज को निराश नहीं होने देंगे। उन्होंने यादव समाज सहित अन्य समाजों के युवाओं का आव्हान किया कि नया मध्यप्रदेश बनाने के लिए सब एक साथ मिलकर आगे बढ़ें।   इस अवसर पर यादव महासभा के महासचिव दामोदर यादव ने अपने स्वागत भाषण में कहा कि मुख्यमंत्री  कमल नाथ घोषणाओं पर नहीं, काम पर विश्वास करने वाले मुख्यमंत्री हैं। मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश को नई ऊँचाईयों पर ले जाना चाहते हैं। उन्होंने अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 27 प्रतिशत आरक्षण देने और समन्वय भवन का नाम स्वर्गीय  सुभाष यादव के स्मृति में रखने के लिए मुख्यमंत्री का यादव समाज की ओर से आभार व्यक्त किया। पूर्व केन्द्रीय मंत्री अरूण यादव ने भी अधिवेशन को संबोधित किया।   इस अवसर पर कृषि विकास एवं किसान कल्याण मंत्री  सचिन यादव, कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्री  हर्ष यादव, पूर्व मंत्री भगवान सिंह यादव, विधायक कृष्णा गौर, योगेन्द्र मंडलोई एवं बड़ी संख्या में यादव समाज के प्रतिनिधि उपस्थित थे।    

Dakhal News

Dakhal News 6 March 2020


elctricity bill

अवकाश के दिनों में भी बिजली बिल भुगतान केन्द्र खुलेंगे     मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के कार्यक्षेत्र के अंतर्गत 10 मार्च (होली), 14 मार्च (रंगपंचमी/द्वितीय शनिवार), 25 मार्च (गुड़ी पड़वा/चैती चांद), 08, 15, 22 एवं 29 मार्च (रविवार) को बिल भुगतान केन्द्र सामान्य कार्य दिवसों की तरह कार्य करते रहेंगे। भोपाल शहर वृत्त के अंतर्गत चारों शहर संभाग पश्चिम, पूर्व, दक्षिण तथा उत्तर संभाग के अंतर्गत सभी जोनल कार्यालय और दानिश नगर, मिसरोद, मण्डीदीप में बिल भुगतान केन्द्र उक्त छुट्टियों के दिन भी सामान्य कार्य दिवस की तरह खुले रहेंगे।   विद्युत वितरण कम्पनी ने बिजली उपभोक्ताओं से अपील की है कि वे राजधानी के जोनल आफिस में राउंड द क्लॉक चैक से बिल भुगतान कर सकेंगे। नागरिक भोपाल शहर में अरेरा कालोनी,   एम.पी. नगर, टी.टी. नगर, वल्लभ नगर, गोविंदपुरा, शक्तिनगर, विद्यानगर, रॉयल मार्केट, राज होम्स, शाहपुरा, रचना नगर, बस स्टैण्ड, कोटरा, बैरागढ़, चाँदबड़, करोंद, शिवाजी नगर, सुल्तानिया, छोला एवं जहाँगीराबाद पर लगी ए.टी.पी. मशीन में भी बिल भुगतान कर सकते हैं।

Dakhal News

Dakhal News 4 March 2020


llb student

लॉ की पढ़ाई कर रही छात्रा से छेड़खानी का मामला सामने आया हैं | बाजार से सामान खरीदकर छात्रा घर लौट रही थी | इस दौरान उसके साथ एक मनचले लड़के ने छेड़छाड़ कर दी | मनचले ने छात्रा को बीच रास्ते में रोका और उसके साथ छेड़खानी करने लगा | रास्ते में एक अज्ञात युवक ने अंधेरे का फायदा उठाकर छात्रा के साथ अश्लील हरकत की । छात्रा ने विरोध कर शोर मचाया तो आरोपित भाग निकला। छात्रा ने पुलिस ने शिकायत की | पुलिस ने शकायत के  आधार पर  एफआईआर दर्ज कर ली है। अशोका गार्डन पुलिस के मुताबिक 20 वर्षीय लॉ की छात्रा है। रविवार रात करीब नौ बजे घर के पास दुकान से सामान खरीदकर लौट रही थी | 

Editor shruti upadhyay

shruti upadhyay 4 March 2020


jabalpur, Two minor real sisters, left for school,mysterious condition

जबलपुर। मध्य प्रदेश के जबलपुर जिले में दो नाबालिग सगी बहनों के रहस्यमय तरीके से लापता होने का मामला सामने आया है। दोनों बहनें बुधवार दोपहर को स्कूल गई थी, लेकिन देर शाम तक घर नहीं लौटी। परिजनों द्वारा काफी खोजबीन करने के बाद भी बच्चियों का पता नहीं चल सका। जिसके बाद परिजनों ने रात में पुलिस को जानकारी दी। फिलहाल आधारताल थाना पुलिस ने गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कर दोनों की तलाश में जुट गई है।   जानकारी अनुसार आधारताल थाना क्षेत्र के इंद्रप्रस्थ कालोनी में रहने वाली नंदनी और संजना पटेल सगी बहनें हैं और जीएस स्कूल संजय नगर में पढ़ती हैं। नंदनी 10वीं की छात्रा है जबकि उसकी छोटी बहन संजना 6वीं क्लास में पढ़ती है। परिजनों के मुताबिक बुधवार को बच्चियों के स्कूल में कार्यक्रम था जिसमें शामिल होने के लिए दोनों बहनें दोपहर करीब 12 बजे स्कूल के लिए निकली थी। शाम को जब 6 बजे तक दोनों घर नही लौटी तो परिजन परेशान होकर स्कूल पहुंचे, जहां पता चला कि दोनों स्कूल में नहीं है। इसके बाद परिजनों ने दोनों की तलाश करना शुरू किया। परिजनों ने उनकी सहेलियों, रिश्तेदारी और पहचान वालों के यहां दोनों की पूछताछ की, लेकिन उनका कही पता नहीं चल सका। थक हार कर बच्चियों के पिता विजय पटेल ने रात में पुलिस को सूचना दी। इधर आधारताल थाना पुलिस ने दोनों छात्राओं के फोटो को शहर के सभी थानों में सर्कुलेट कर तलाश शुरू कर दी है।

Dakhal News

Dakhal News 27 February 2020


tikamgarh, Namaste Orchha Festival, preparations, full swing painted,  Ramraja temple  

टीकमगढ़। प्रदेश के प्रसिद्ध ऐतिहासिक पर्यटन स्थल ओरछा में आगामी छह से आठ मार्च तक तीन दिवसीय "नमस्ते ओरछा" महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। इसकी तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। पूरा जिला प्रशासन इसकी तैयारियों में जुटा है। पूरी ओरछा नगरी को रामराजा मंदिर के रंग में रंगा जा रहा है। यह जानकारी सहायक जनसम्पर्क अधिकारी शैफाली तिवारी ने गुरुवार को मीडिया को दी। उन्होंने बताया कि आगामी छह मार्च को ओरछा महोत्सव भगवान श्रीराम के अयोध्या से ओरछा आगमन की कथा से शुरू होगा। इस ऐतिहासिक गाथा को थ्री-डी मैपिंग से जहाँगीर महल की दीवारों पर दिखाया जाएगा। इसके साथ ही शास्त्रीय संगीत की स्वर लहरियों के बीच यहाँ विदेशी संगीतज्ञों के साथ बुंदेली गायक सुर-ताल मिलाते दिखाई देंगे। पहले दिन के कार्यक्रम का समापन बुंदेली व्यंजनों के जायके से किया जायेगा। महोत्सव का ब्लू-प्रिंट तैयारतीन दिवसीय ओरछा महोत्सव का ब्लू-प्रिंट तैयार कर लिया गया है। देश-विदेश से आने वाले डेलीगेट्स को तीन दिन में यहाँ की संस्कृति, संगीत, पर्यावरण, भोजन आदि हर चीज से रू-ब-रू कराने की कोशिश की जा रही है। देश-विदेश से आने वाले हर क्षेत्र के डेलीगेट्स को ओरछा में इन्वेस्ट करने के लिए आमंत्रित किया जा सके, इस बात को ध्यान में रखकर पूरा कार्यक्रम तैयार किया गया है।महोत्सव की ओपनिंग सेरेमनी में संध्या ग्रुप का डांस, क्लिंटन का म्यूजिक-शो, बुंदेली आर्टिस्ट तिपन्या के साथ संतूर-वादन का कार्यक्रम होगा। दूसरे दिन 7 मार्च की शाम कंचना घाट पर बेतवा नदी की महा-आरती होगी। यहाँ पर प्रख्यात शास्त्रीय संगीत गायिका शुभा मुद्गल का गायन होगा। इसके साथ ही क्लासिकल डांसर अदिति मंगलदास नृत्य की प्रस्तुति देंगी। इसके बाद कल्पवृक्ष के पास आयोजित म्यूजिक-शो में इण्डियन ओशन ग्रुप, मृग्या, स्वनन किरकिरे के गायन के साथ ही फ्रेंच गायक मनु चाव एवं बुंदेली आर्टिस्ट कालू राम की जुगलबंदी का आनंद लोग उठायेंगे।आसमान से निहारेंगे ओरछा की सुंदरताकार्यक्रम में आने वाले देशी-विदेशी मेहमानों को यहाँ के प्राकृतिक वातावरण से रू-ब-रू कराने के लिये नेचर वॉक, योग, हेरिटेज साइकिलिंग एवं फोटोग्राफी जैसे कार्यक्रम रखे गये हैं। दूसरे दिन सुबह से सभी डेलीगेट्स को वन परिक्षेत्र एवं बेतवा नदी के बीच ले जाकर ये कार्यक्रम कराये जायेंगे। इसके साथ ही, ओरछा की ऐतिहासिक एवं प्राकृतिक सुंदरता का आसमानी मंजर दिखाने के लिये हॉट एयर बैलून से पर्यटकों को भ्रमण कराया जायेगा।माँ बेतवा की महा-आरतीमहोत्सव में राज्य सरकार बेतवा के महत्व को सभी लोगों के बीच ले जाने का प्रयास करेगी। महोत्सव में 7 मार्च की शाम को सभी डेलीगेट्स कंचना घाट पर बेतवा की महा-आरती में शामिल होंगे। यहीं पर शुभा मुद्गल का गायन होगा। इसके बाद लगभग 500 वर्ष पुराने कल्पवृक्ष को भी दिखाया जायेगा तथा कल्पवृक्ष के पास म्यूजिक-शो होगा

Dakhal News

Dakhal News 27 February 2020


bhopal, meteorological department, expressed  possibility , rain , Bhopal ,Gwalior divisions

भोपाल। पश्चिमी विक्षोम के असर के चलते मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल समेत ग्वालियर संभाग में आगामी 2 मार्च को बारिश होने की संभावना है। पिछले 24 घंटे के दौरान प्रदेश के रीवा संभाग के जिलों में कहीं-कहीं बारिश दर्ज की गई है। जिसके चलते राजधानी सहित प्रदेश के मौसम में एक बार फिर ठंडक घुल गई है। कई शहरों में अधिकतम और न्यूनतम तापमान भी सामान्य से कम हो गया है। राजधानी में भी अधिकतम और न्यूनतम तापमान सामान्य से कम रहा।    वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक उदय सरवटे ने जानकारी देते हुए बताया कि अधिकतम तापमान में पिछले 24 घंटे के दौरान 2.8 डिग्री की बढ़ोतरी हुई है, वहीं न्यूनतम तापमान में 1.4 डिग्री की बढ़ोतरी हुई है। मौसम विभाग के अनुसार न्यूनतम तापमान रीवा, शहडोल एवं जबलपुर संभाग के जिलों में काफी गिरा है। शेष संभाग के जिलों में विशेष परिवर्तन नहीं हुआ है। प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस छिंदवाड़ा, रायसेन व खरगौन में दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अनुसार मप्र के मौसम में 29 फरवरी से बड़ा बदलाव आ सकता है। 29 फरवरी से 2 मार्च के बीच भोपाल सहित ग्वालियर संभाग के जिलों में गरज-चमक के साथ ओले गिरने की भी संभावना है।   लगातार मौसम बदलने की वजह जम्मू-कश्मीर से गुजरने वाला पश्चिमी विक्षोभ है। कई जगहों पर ओले गिरने से किसानों को नुकसान हो सकता है। पूर्वी मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में पहले ही ओलावृष्टि हो चुकी है। विभाग का कहना है कि 29 फरवरी से पश्चिमी विक्षोभ आ रहा है, जो काफी मजबूत है। इससे प्रदेश के पश्चिमी क्षेत्र में बारिश होने की संभावना है।

Dakhal News

Dakhal News 27 February 2020


guna, Heavy CMO, suspended, not filing FIR,colonizers

गुना। नगर पालिका परिषद की बगैर अनुमति के पच्चीस से अधिक लोगों को संविदा पर नौकरी देना और कॉलोनाइजरों पर एफआईआर न कराना नगर पालिका के सीएमओ संजय श्रीवास्तव को भारी पड़ा। प्रभारी मंत्री इमरती देवी इनकी लगातार शिकायत मिलने पर नाराज चल रही थीं। उनके निर्देश पर कलेक्टर  व नगर पालिका के प्रशासक भास्कर लाक्षाकार ने सीएमओ संजय श्रीवास्तव को निलंबित कर दिया है। खबर है कि संविदा पर रखे गए पच्चीस से अधिक लोगों को भी आज-कल में हटाया जा सकता है।    प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रभारी सीएमओ संजय श्रीवास्तव गुना नगर पालिका में बीते सवा साल पूर्व आए थे। उनके स्थानीय होने के कारण शहर की कई व्यवस्थाओं को लेकर नगर पालिका अध्यक्ष राजेन्द्र सलूजा के बीच विवाद हो गया था, इस विवाद के चलते जहां एक और सफाई व्यवस्था ठप हो गई थी, वहीं दूसरी ओर विकास ठप हो गया था। इसको लेकर आए दिन पार्षदों द्वारा शिकायत की जा रही थी। वहीं दिसंबर माह में नगर पालिका परिषद की बैठक हुई थी, जिसमें तय हुआ था कि संविदा पर कर्मचारी रखे जाएं, इसके लिए एक समिति बनेगी।  यह समिति छानबीन करके संविदा कर्मचारियों की नियुक्ति करेगी।    सूत्रों ने बताया कि उक्त समिति अपने काम करती कि इससे पहले संविदा पर 25 लोगों की नियुक्तियां कर दीं। इन नियुक्तियों के एवज में प्रति एक युवक से पच्चीस से पचास हजार रुपए लेने तक के आरोपों की चर्चा शुरू  हो गई थी। इसका मामला चर्चा के रूप में शहर फैला, बाद में इसकी शिकायत पूर्व पार्षद प्रमोद घोसी ने कलेक्टर को एक पत्र भेजा था, जिसमें संविदा पर रखे गए इन कर्मियों के पूरे मामले की जांच कराने की मांग की थी। कलेक्टर ने इस पत्र पर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया था।    सिंधिया और इमरती से भी हुई थी शिकायत बताया जाता है कि बीते दिनों प्रभारी मंत्री इमरती देवी और पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया गुना के अल्प प्रवास पर आए थे-बैठक में इमरती के समक्ष संविदा पर रखे गए कर्मचारियों में हुई आर्थिक गड़बडिय़ों के मामला आया था। सिंधिया से भी इस आशय की शिकायत आई थीं, जिस पर इमरती ने कलेक्टर को इस संबंध में कार्रवाई के निर्देश दिए थे। इसके साथ ही कॉलोनाइजरों को लेकर कई शिकायतें हुई थीं, उनका कहना था कि कॉलोनाइजरों ने जनता को सुविधा तो दी नहीं, उन पर कार्रवाई होना थी, लेकिन उन पर एफआईआर नहीं हुई। उन कॉलोनाइजरों के विरुद्ध कार्रवाई करने के भी निर्देश कलेक्टर को प्रभारी मंत्री ने दिए थे।    विवादित रहे सीएमओ  नगर पालिका के सीएमओ संजय श्रीवास्तव राजस्व निरीक्षक हैं, जबकि गुना संभाग की सबसे बड़ी नगर पालिका है, उसका प्रभारी सीएमओ बना दिया था। कुछ दिनों पूर्व नगर पालिका के सीएमओ संजय श्रीवास्तव पर बगैर टेण्डर के फिनाइल खरीदने आने के आरोप लगे थे। इसके साथ ही आजीविका मिशन से जुड़ी फाइल एवं होटल सलूजा पैलेस से जुड़ी फाइलें गायब हो गई थी, जिसका मामला कोतवाली में दर्ज कराया था। वहीं तलघर संचालकों को  पार्किंग न होने पर नोटिस तो दिए, लेकिन उन पर कार्रवाई नहीं हो पाई थी। इस संबंध में नगर पालिका के सीएमओ संजय श्रीवास्तव बोले मिशन 1० में अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान देने का प्रतिसाद मिला है।   इस संबंध में गुना प्रभारी मंत्री  इमरती देवी का कहना है कि सीएमओ संजय श्रीवास्तव अकेले नहीं हैं ऐसे कई अधिकारी हैं, जिनके खिलाफ  शिकायतें मिली हैं, उन पर कार्रवाई कराने के लिए कहा गया है। जानकारी मिली है कि कलेक्टर ने सीएमओ को निलंबित किया है, अभी और अधिकारियों पर भी कार्रवाई होना बाकी है, जल्द ही परिणाम सामने आएंगे।   

Dakhal News

Dakhal News 26 February 2020


betul,  Taxi driver daughter, laborer son, selected for Japan trip

बैतूल। शहर के शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय में वर्तमान में कक्षा ग्यारहवी में अध्यनरत एक छात्र और एक छात्रा का चयन जापान यात्रा के लिए हुआ है। दोनों का चयन गत वर्ष हुई हाईस्कूल परीक्षा में जिले की प्रावीण्य सूची में संयुक्त रूप से प्रथम स्थान प्राप्त करने के कारण हुआ है। इनमें बैतूल निवासी प्रतीक्षा कुंभारे टैक्सी चालक प्रवीण कुंभारे की बेटी है, वहीं जावरा के समीप ग्राम अर्जुनवाड़ी निवासी अंशुल अतुलकर के पिता मनीराम अतुलकर मजदूरी करते हैं। सहायक जनसम्पर्क अधिकारी सुरेन्द्र कुमार तिवारी ने मंगलवार को इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि लोक शिक्षण संचालनालय मप्र भोपाल द्वारा इस वर्ष से शुरू की गई जापान एशिया यूथ एक्सचेंज प्रोग्राम इन साइंस 2020 के तहत वर्ष 2018-19 में हाईस्कूल में प्रदेश की प्रावीण्य सूची में शामिल 8 छात्र-छात्राओं का चयन जापान यात्रा के लिए किया है। इनमें उत्कृष्ट विद्यालय बैतूल के दोनों विद्यार्थी प्रतीक्षा कुंभारे और अंशुल अतुलकर भी शामिल हैं। इन दोनों ने दसवीं कक्षा की परीक्षा में संयुक्त रूप से 487 अंक प्राप्त कर जिले की प्रावीण्य सूची में प्रथम स्थान प्राप्त किया था। ये सभी छात्र-छात्राएं जापान में साइंस की नई तकनीकी का अध्ययन करेंगे। अभी जापान यात्रा की तारीख तो तय नहीं हुई है, लेकिन लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा दोनों के वीजा, पासपोर्ट बनवाने और परिजनों की सहमति लेने पत्र लिखा है।उत्कृष्ट स्कूल के प्राचार्य राकेश दीक्षित ने बताया कि दोनों छात्र-छात्राओं के पासपोर्ट के लिए आवेदन कर दिया है। पासपोर्ट बनने के बाद प्रदेश से यात्रा की तारीख तय होते ही दोनों छात्र-छात्राएं जापान यात्रा पर जाएंगे।जापान यात्रा के लिए चयनित प्रतीक्षा के पिता प्रवीण कुंभारे टैक्सी चालक हैं। वे बैतूल टैक्सी स्टैंड से टैक्सी चलाते हैं। वहीं, अंशुल अतुलकर जावरा के पास छोटे से ग्राम अर्जुनवाड़ी का निवासी है। अंशुल के पिता मजदूरी करते हैं। दोनों छात्र-छात्राओं ने कभी सोचा भी नहीं था कि वे जापान की यात्रा कर पाएंगे। दोनों ने कहा कि साइंस में जापान की तकनीक सर्वश्रेष्ठ है वे जापान से साइंस की नई तकनीकि का अध्ययन करेंगे। यह उनके जीवन का सबसे रोमांचक पल होगा।

Dakhal News

Dakhal News 25 February 2020


badwani,  Bhagoria preparations ,begin on March 3

बड़वानी। मध्यप्रदेश के आदिवासी बहुल जिले बड़वानी में भगोरिया एक महत्वपूर्ण त्यौहार है, जिसे पूरे जिले में हर्षोल्लास और उमंग के साथ मनाया जाता है। इस बार उमंग का यह पर्व भगोरिया तीन मार्च से शुरू होगा और नौ मार्च तक चलेगा। इसकी तैयारियां शुरू हो गई हैं। सम्पूर्ण जिले में होली जलने के एक सप्ताह पूर्व से लगने वाले 45 हाट बाजार में भगोरिया का पर्व मनाया जाता है। सहायक जनसम्पर्क संचालक स्वदेश कुमार सिलावट ने मंगलवार को इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि सम्पूर्ण बड़वानी जिले में नियमित रूप से 40 ग्रामों में साप्ताहिक हाट-बाजार लगते है, जबकि 5 ग्रामों में विशेष रूप से भरोरिया के लिये वर्ष में एक दिन हाट-बाजार का आयोजन किया जाता है। उन्होंने बताया कि जिले में 03 मार्च को पहले दिन बालकुंआ, रोसर, पलसुद नागलवाडी, मण्डवाडा, चाचरिया, बाबदड, बिजासन में भगोरिया हाट लगेगा, जिसमें यह पर्व धूमधाम से मनाया जाएगा, जबकि 04 मार्च को ग्राम सिलावद, बालसमुद, घटया, धवली, धनोरा, भवती, सेमलेट, 05 मार्च को ग्राम पाटी, राजपुर, दवाना, राखी बुजुर्ग, बलवाडी, जोगवाड़ा, 06 मार्च को ग्राम मेणीमाता, बोकराटा, ठीकरी, मोयदा, तलवाडा, वरला, झोपाली. 07 मार्च को ग्राम गंधावल, ओझर, भागसुर, वझर, खेतिया, मटली में, 08 मार्च को ग्राम बड़वानी, चेरवी, पोखल्या, बरूफाटक, पानसेमल, सेंधवा, इन्द्रपुर और 09 मार्च को ग्राम गारा, जुलवानिया, निवाली, अंजड़, सोलवन, जूनाझीरा में यह पर्व मनाया जायेगा।भगोरिया में जनपद और नगर निकाय करवायेंगे व्यवस्थाएं-कलेक्टर अमित तोमर ने जिले के समस्त जनपदों के सीईओ एवं नगर निकायो के सीएमओ को निर्देशित किया कि वे उनके शहर या क्षेत्र में जहां पर भी भगोरिया पर्व के हाट-बाजार लगेंगे, वे वहां पर पीने के पानी सहित साफ-सफाई की विशेष व्यवस्थाएं पूर्व वर्षों के समान करवायेंगे। साथ ही आवश्यक होने पर चूने की लाईन भी डलवाने की व्यवस्थाएं करवायेगी, जिससे हाट बाजार में समुचित व्यवस्थाएं बनी रहे। इसके साथ ही कलेक्टर ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया कि वे अपने खाद्य निरीक्षको के माध्यम से सुनिश्चित करायेगी कि हाट बाजारों में बिकने वाली खाद्य सामग्री मानक स्तर की है।

Dakhal News

Dakhal News 25 February 2020


bhopal, Tourist guides, learning foreign languages, convenience of tourists , festival in Orchha

भोपाल। राज्य शासन द्वारा प्रदेश के निवाड़ी जिले के सुप्रसिद्ध धार्मिक पर्यटन स्थल ओरछा में ''नमस्ते ओरछा'' महोत्सव 6 से 8 मार्च तक आयोजित किया जा रहा है। महोत्सव के दौरान ओरछा आने वाले पर्यटकों की सुविधा के लिए मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड द्वारा टूरिस्ट गाइड्स को विदेशी भाषाओं की ट्रेनिंग दी जा रही है। महोत्सव में ओरछा के प्राकृतिक सौन्दर्य, पुरातात्विक एवं ऐतिहासिक महत्व, स्थानीय खान-पान और लोक कलाओं को भी प्रोत्साहित किया जायेगा।   स्थानीय महिलाओं को ई-रिक्शा संचालन प्रशिक्षण   ओरछा में स्थानीय महिलाओं को ई-रिक्शा संचालन का नि:शुल्क प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षित महिलाएं पर्यटकों को ई-रिक्शा में ओरछा की सैर करायेंगी। प्रशिक्षण के प्रथम चरण में इस कार्य में रूचि रखने वाली ओरछा और उसके आस-पास के ग्रामों की 20 महिलाओं को ई-रिक्शा चलाने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षण के दौरान महिलाओं को ड्राइविंग, ई-रिक्शा की सामान्य रिपेयरिंग, मेहमानों से बात करने का तरीका, भाषा ज्ञान एवं कम्प्यूटर की सामन्य जानकारी भी दी जा रही है। प्रशिक्षण प्राप्त कर रही महिलाओं को ड्राइविंग लाइसेंस भी दिये जायेंगे।   होटल रेस्टोरेन्ट संचालकों व दुकानदारों को ट्रेनिंग   ओरछा महोत्सव में होटल संचालक, रेस्टोरेंट संचालक और दुकानदारों को विदेशी पर्यटकों का स्वागत-सत्कार करने और उनके साथ व्यवहार के बारे में ट्रेनिंग दी जा रही है। उनको बताया गया है कि पर्यटकों से मधुर व्यवहार के साथ ''अतिथि देवो भव'' परंपरा निभाते हुए उनका आदर-सत्कार किया जाए। महोत्सव के दौरान ओरछा में साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने के लिये कहा गया है।

Dakhal News

Dakhal News 25 February 2020


raisen,  Bhojpur Festival ,concludes with devotional presentations

रायसेन।  विश्व प्रसिद्ध भोजपुर शिव मंदिर प्रांगण में संस्कृति विभाग द्वारा जिला प्रशासन के सहयोग से आयोजित दो दिवसीय भोजपुर महोत्सव का शनिवार की रात भक्तिमय प्रस्तुतियों का साथ समापन हुआ। दूसरे दिन भजन संध्या में कलाकारों द्वारा शिव भक्ति पर आधारित सांस्कृतिक् कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी गई। कार्यक्रम में जनसम्पर्क मंत्री एवं विधि तथा विधायी कार्य विभाग मंत्री पीसी शर्मा शामिल हुए तथा उन्होंने कलाकारों को सम्मानित भी किया। भोजपुर समहोत्सव की दूसरी संध्या की शुरुआत शनिवार को देर शाम सात बजे हुई। कार्यक्रम की पहली कड़ी में मुम्बई की रमिन्दर खुराना द्वारा ओडिसी नृत्य की मनमोहक प्रस्तुति दी गई। कार्यक्रम की अगली कड़ी में भोपाल की विभा शर्मा तथा उनके दल द्वारा शंकर भोले नाथ भज मन..... सहित अन्य भजनों की प्रस्तुति दी गई। इसके पश्चात जबलपुर की संजो बघेल द्वारा शिव भक्ति गायन की प्रस्तुति दी गई। देर रात तक चले शिव भक्ति पर आधारित इन कार्यक्रमों की प्रस्तुति से पूरा वातावरण भक्तिमय हो गया। इसी के साथ भोजपुर महोत्सव का समापन हुआ।

Dakhal News

Dakhal News 23 February 2020


bhopal, Cloudy weather, Madhya Pradesh, Rajdhani likely to fall,Rewa, Jabalpur

भोपाल। राजधानी सहित प्रदेश के मौसम में बदलाव होना शुरू हो गया है। रविवार सुबह राजधानी भोपाल में हल्के बादल के साथ कोहरा भी छाया रहा।  बादल छाने से पिछले कुछ दिनों से महसूस हो रही गर्माहट से राहत मिली है और मौसम में ठंडक का एहसास हो रहा है। वहीं पिछले 24 घंटे के दौरान प्रदेश के रीवा संभाग के जिलों व सागर, जबलपुर और होशंगाबाद संभागों के जिलों में कहीं-कहीं बारिश हुई। शेष संभाग के जिलों का मौसम शुष्क रहा। रीवा में 2, कटनी व सीधी में एक सेमी बारिश हुई। रीवा सागर व ग्वालियर संभाग के जिलों में कोहरा भी छाया रहा। हालांकि, न्यूनतम तापमान में सभी संभाग के जिलों में विशेष परिवर्तन नहीं हुआ है।   मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटे के दौरान रीवा, जबलपुर, शहडोल संभाग के जिलों में गरज-चमक के साथ बौछारें पडऩे की संभावना है। हालांकि, शेष मप्र में मौसम शुष्क रहेगा। इसी तरह सीधी, सिंगरौली, अनूपपुर व शहडोल जिलों में गरज-चमक के साथ बिजली चमकने या गिरने की संभावना है।   अधिकतम व न्यूनतम तापमान में आएगी गिरावट वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने जानकारी देते हुए बताया कि पश्चिमी मप्र में हुई बारिश के चलते राजधानी सहित प्रदेशभर में न्यूनतम और अधिकतम तापमान में हल्की गिरावट होगी। शनिवार को अधिकतम तापमान 28.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से 1 डिग्री कम रहा। वहीं, न्यूनतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया, जो सामान्य से एक डिग्री अधिक रहा। इधर, रविवार को इसमें और अधिक गिरावट होने की संभावना है। रविवार को अधिकतम तापमान 28 डिग्री तो न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है।    

Dakhal News

Dakhal News 23 February 2020


gwalior,Closing, award distribution ceremony,  Gwalior trade fair

ग्वालियर। ग्वालियर व्यापार मेला के इतिहास का अब तक की सबसे लंबी अवधि का मेला का आज समापन हो जाएगा। समापन अवसर पर मेला कला मंदिर रंगमंच पर शाम 4 बजे पुरस्कार वितरण समारोह आयोजित किया जायेगा। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, विशिष्ट अतिथि के रूप में कांग्रेस विधायक मुन्ना लाल गोयल और विधायक प्रवीण पाठक मौजूद रहेंगे।    ग्वालियर व्यापार मेला का शुभारंभ 27 दिसम्बर को पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किया था। मेला अवधि 15 फरवरी तक थी लेकिन व्यापारियों की मांग और सैलानियों के अपार उत्साह को देखते हुए इसकी अवधि को 5 दिन बढ़ाकर 20 फरवरी कर दिया गया था। इसके बाद मेला प्राधिकरण के सदस्यों ने जिला प्रशासन और जनप्रतिनधियों के साथ हुई चर्चा में महसूस किया कि इसकी अवधि 5 दिन और बढ़ाना चाहिए। इसलिए निर्णय लिया गया कि मेला अवधि 25 फरवरी तक रहेगी।    प्राधिकरण के अध्यक्ष प्रशांत गंगवाल और उपाध्यक्ष डॉ प्रवीण अग्रवाल ने बताया कि मेला इतिहास के अब तक के सबसे लंबे 61 दिन के मेले का समापन समारोह और पुरस्कार वितरण समारोह 23 फरवरी रविवार को सायं 4 बजे मेला कला मंदिर रंगमंच पर आयोजित किया गया है। इस काय्र्रकम में शासकीय प्रदर्शनी,अर्ध शासकीय प्रदर्शनी और 34 सेक्टर में से प्रत्येक सेक्टर के शोरूम को उत्कृष्ट सजावट के लिए प्रथम, द्वितीय और तृतीय पुरुस्कार दिया जाएगा।

Dakhal News

Dakhal News 23 February 2020


mandsour,  108 ambulances, saved  girl\

मंदसौर/इंदौर। मंदसौर जिला अस्पताल में बीती देर रात एक साल की बच्ची को तबियत खराब होने पर उसके परिजनों ने भर्ती किया था, जहां चिकित्सकों ने उसकी गंभीर हालत देखकर इंदौर रैफर कर दिया। मंदसौर से इंदौर का एमवाय अस्पताल 230 कि.मी है,  लेकिन 108 एम्बुलेंस के कर्मियों ने बच्ची को समय पर इंदौर के एमवाय अस्पताल पहुंचाकर उसकी जान बचा ली। अब बच्ची की हालत खतरे से बाहर है और एमवाय अस्पताल में उपचार के बाद उसके स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है। जानकारी के मुताबिक, मंदसौर जिले के पिपलियामंडी निवासी पप्पू सिंह की एक वर्षीय बेटी रोशनी की शुक्रवार-शनिवार  की दरमियानी रात करीब दो बजे अचानक तबियत खराब हो गई। परिजन उसे लेकर मंदसौर के जिला अस्पताल पहुंचे, जहां डॉक्टर ने बच्ची की गंभीर हालत देखते हुए इंदौर के एमवाय अस्पताल रैफर कर दिया और एम्बुलेंस को सूचना दे दी। सूचना मिलते ही पुलिस कंट्रोम रूम की एम्बुलेंस 108 मौके पर पहुंची और बच्ची को लेकर इंदौर रवाना हो गई। मंदसौर जिला अस्पताल से इंदौर के एमवाय अस्पताल की दूरी करीब 230 किलोमीटर है, जिसे 108 एम्बुलेंस के पायलेट पीयूष जैन ने मात्र तीन घंटे में तय कर ली। वहीं, एम्बुलेंस के इमरजेंसी मेडिकल टेक्निशियन यासीन मोहम्मद रास्ते में भोपाल 108 कॉल सेंटर पर मौजूद डॉक्टर की सलाह से बच्ची का प्राथमिक उपचार करते रहे और बच्ची को सुरक्षित एमवाय अस्पताल पहुंचाया। एमवाय अस्पताल में बच्ची को तत्काल आईसीयू में भर्ती कर उपचार शुरू किया गया। एमवाय अस्पताल में उपचार के बाद बच्ची की हालत नियंत्रण में है और उसके स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है। बच्ची की जान बचाने में एम्बुलेंस के पायलट पीयूष जैन और इमरजेंस मेडिकल टेक्निशियन यासीन मोहम्मद ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

Dakhal News

Dakhal News 22 February 2020


bhopal,  Changes in weather , Madhya Pradesh, rain fell

भोपाल। मध्य प्रदेश में मौसम का मिजाज एक बार फिर बदल गया है। पिछले कुछ दिनों से प्रदेश का मौसम शुष्क रहने के साथ ही अधिकतम और न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है। यह बढ़ोतरी अब थमने लगी है। वहीं, प्रदेश के कटनी जिले सहित पूर्वी मप्र में शुक्रवार से हल्की बारिश होना शुरू हो गई है। कटनी जिले में हल्के ओले भी गिरे हैं। भिंड में भी बारिश के साथ ओले गिरे। हल्की बारिश का यह सिलसिला 25 फरवरी तक प्रदेश के अलग-अलग स्थानों में बना रहेगा। इससे अधिकतम और न्यूनतम तापमान में गिरावट भी हो सकती है।   गरज के साथ हल्की बारिश की संभावना मप्र के उत्तर पश्चिमी हिस्से में बने ट्रफ लाइन के कारण बंगाल की खाड़ी से आर्द्र हवाएं मध्य भारत की तरफ ब़ढ़ गई हैं। वहीं, उत्तर भारत में बने पश्चिमी विक्षोभ और चक्रवाती हवाओं के कारण भी मप्र के कुछ जिलों के मौसम में बदलाव आ सकता है। आगामी 24 घंटे के दौरान रीवा, शहडोल, संभागों के जिले के साथ टीकमगढ़, ग्वालियर, शिवपुरी, दतिया, अशोकनगर और भिंड जिले में कहीं-कहीं गरज-चमक के साथ हल्की बारिश हो सकती है। वहीं पूर्वी मप्र में आगामी तीन दिन में गरज-चमक के साथ हल्की बारिश भी हो सकती है। इधर, प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस उज्जैन का रिकार्ड किया गया।   रुक-रुक कर हो सकती है बारिश मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार 24 फरवरी तक रुक-रुक कर बारिश जारी रहने की उम्मीद है। सीधी, सतना, पन्ना, उमरिया और शहडोल में जहां अच्छी बारिश हो सकती है, वहीं दूसरी ओर इंदौर, भोपाल, उज्जैन, रतलाम, खरगोन, खंडवा, शिवपुरी और ग्वालियर में मौसम शुष्क रहेगा। यानि पूर्वी और पश्चिमी मध्य प्रदेश में विपरीत मौसम रहने वाला है। पूर्वी मप्र में कुछ स्थानों पर गरज-चमक के साथ हल्की बारिश हो सकती है। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि दो दिन तक उत्तर-पश्चिम मप्र के कई हिस्सों में न्यूनतम तापमान में 2 से 3 डिग्री सेल्सियस की वृद्घि और गिरावट दर्ज होने की संभावना है।   राजधानी में सामान्य से 4.3 डिग्री अधिक रहा रात का तापमान इधर, राजधानी में मौसम के बदलते मिजाज के बीच शुक्रवार का मौसम दोपहर तक तेज धूप वाला रहा। वहीं, शाम ढलने के बाद ठंड का अहसास भी हुआ। अधिकतम तापमान 30.9 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया, जो सामान्य से 1.7 डिग्री अधिक रहा। वहीं, न्यूनतम तापमान 17.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से 4.3 डिग्री अधिक रहा। पिछले 24 घंटे के दौरान अधिकतम तापमान में 1.4 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई, वहीं न्यूनतम तापमान 0.2 डिग्री सेल्सियस ब़ढ़ा है।  

Dakhal News

Dakhal News 22 February 2020


bhind, Car collapsed, Gauri Sarovar three Kanwaris died

भिंड। भिंड शहर के किनारे गौरी सरोवर में चार पहिया वाहन गिर गया। पुलिस प्रशासन ने सूचना मिलते ही मौके पर तत्काल रेसक्यू टीम भेजकर गाड़ी व उसमें फंसे लोगों को निकाला गया, लेकिन तब तक तीन लोगों की मौत हो चुकी थी। यह घटना शुक्रवार तड़के लगभग तीन बजे की है। दुर्घटना में मृत तीनों ही मृतक भारोली खुर्द गांव के निवासी है जो रात्रि में ही श्रृंगीरामपुर गंगा घाटसे कांवर  भरकर वापस  भिंड लौटे थे।    जानकारी के अनुसार भारोली खुर्द गांव निवासी ब्रजमोहन सिंह (50) पुत्र परमाल सिंह राजावत, चन्द्र्भान सिंह (25) उर्फ लला पुत्र यदुनाथ सिंह राजवत, ब्रज किशोर शर्मा पुत्र सत्यनारायन शर्मा श्रंगीरामपुर से कांवर भरकर रात्रि करीब डेढ़ बजे लौटे थे। उनको रात्रि में लेने के लिए ब्रजमोहन सिंह का बेटा पंकज सिंह एंम्सेडर कार क्रमांक एम पी 21 सी ए 0084 लेकर भिंड पहुंचा। उसके साथ उसकी माँ विनीता देवी, दादी रामा देवी और चन्द्रभान की माँ ओमवती तथा पत्नी सपना सिंह भी साथ आई थी, जो नीचे उतर कर खड़ी हो गई। जब किनारे गाड़ी पार्क कर दी तो तीनों कांवारीया गौरी सरोवर किनारे खड़ी कार में थकान मिटाने बैठ गये। इसी दौरान आगे की सीट बैठे व्यक्ति ने चाबी लगाकर गाड़ी स्टार्ट कर दी, जब गाड़ी स्टार्ट होकर आगे बढ़ने लगी तो उसने उसे नियंत्रित करने के लिए ब्रेक के बजाय एक्सीलेटर दवा दिया, जिससे गाड़ी तीव्र गति में गौरी सरोवर में जा गिरी और नजदीक खड़े लोग चिल्लाते ही रह गए। शोरगुल होने पर तत्काल पुलिस प्रशासन को अवगत कराया गया।   रेसक्यू टीम ने क्रेन व नाव की सहायता से गाड़ी और उसमे बेठे लोगो बाहर निकाला, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी तीनों के मृत शव को पोस्‍टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवाया गया,घटना के वाद तत्काल मौके पर जिलाधीस व अन्य अधिकारी भी पहुंच गए थे। 

Dakhal News

Dakhal News 21 February 2020


ujjain, Thousands of devotees ,visit Lord Mahakal , Mahashivaratri festival

उज्जैन। विश्व प्रसिद्ध 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक दक्षिणमुखी महाकालेश्विर मंदिर में महाशिवरात्रि का पर्व शुक्रवार को धूमधाम के साथ मनाया गया। मंदिर में हजारों श्रद्धालुओं ने अलग-अलग कतार में लगकर भगवान महाकाल के दर्शन किये। महाशिवरात्रि पर्व पर दोपहर तीन बजे तक लगभग सवा लाख दर्शनार्थियों ने भगवान महाकाल के दर्शन कर लिये थे। महाशिवरात्रि पर्व पर जिला प्रशासन एवं मंदिर प्रशासन द्वारा व्यापक व्यवस्थाएं की गई थीं। श्रद्धालुओं को सरलता से भगवान महाकाल के दर्शन हुए और उन्होंने व्यवस्थाओं की सराहना की।  प्रदेश के पीडब्ल्यूडी एवं जिले के प्रभारी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने दोपहर में भगवान महाकाल के दर्शन नंदीहॉल से किये। उन्होंने जिला प्रशासन, मंदिर प्रशासन, पुलिस प्रशासन द्वारा की गई व्यवस्थाओं पर संतोष प्रकट कर सराहना की। महाशिवरात्रि पर्व पर आम दर्शनार्थियों के साथ-साथ गृहमंत्री बाला बच्चन, घटिया विधायक रामलाल मालवीय, नागदा खचरौद विधायक दिलीप गुर्जर सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने भगवान महाकाल के दर्शन किये। महाशिवरात्रि पर्व पर संभागायुक्त अजीत कुमार, आईजी राकेश गुप्ता, कलेक्टर शशांक मिश्र, पुलिस अधीक्षक सचिन अतुलकर ने भी भगवान महाकाल के दर्शन किये। मंदिर प्रशासक एवं अपर कलेक्टर एसएस रावत ने समय-समय पर मंदिर की व्यवस्था की निगरानी और मानिटरिंग की।प्रभारी मंत्री ने किये भगवान महाकाल के दर्शनमहाशिवरात्रि के पावन पर्व के अवसर पर उज्जैन जिले के प्रभारी एवं लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा महाकालेश्वर मंदिर पहुंचकर भगवान महाकाल के दर्शन किये।  वहीं, महाशिवरात्रि पर्व पर प्रदेश के गृह मंत्री बाला बच्चन ने भगवान महाकाल के दर्शन कर पूजन-अर्चन का लाभ लिया।शासकीय पूजन के लिए प्रदेश सरकार की ओर से 11 हजार रुपये की राशि भेंट लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने प्रदेश शासन की ओर से महाकालेश्वर मंदिर में होने वाली शासकीय पूजा के लिए 11 हजार रुपये की राशि भेंट की। मंत्री वर्मा शुक्रवार सुबह 11.45 बजे महाकालेश्वर मंदिर पहुंचे एवं शासकीय पूजन की थाली मंदिर की परंपरा के अनुसार उज्जैन महाकाल मंदिर प्रबंध समिति के अध्यक्ष को सौंपी।   

Dakhal News

Dakhal News 21 February 2020


bhopal,  Thousands of devotees, visit Bhojpur, Shiva temple , Mahashivratri

रायसेन। महाशिवरात्रि पर्व पर भोजपुर स्थित विश्व प्रसिद्ध शिव मंदिर में लाखों श्रद्धालु भगवान शिव के दर्शन किया। आज सुबह 4 बजे से ही बड़ी संख्या मे श्रद्धालुओं का आना शुरू हो गया। हजाओं श्रद्धालुओं ने भगवान शिव के विराट रूप का दर्शन किया। दर्शनार्थियों की सुविधा के लिए जिला प्रशासन ने पेयजल, पार्किंग, यातायात की  समुचित व्यवस्था किया, ताकि उन्हें दर्शन और पूजा अर्चना में किसी प्रकार की समस्या का सामना ना करना पड़े ।    व्यवस्था की देखरेख एसडीएम विनीत तिवारी, तहसीलदार संतोष विटोलिया के निर्देशन में सुबह से ही हो रही थी। प्रशासनिक अमला चाक चौबन्द तरीके से श्रद्धालुओं की सुविधाओं की निगरानी में लगा रहा ।    इसी प्रकार रायसेन दुर्ग स्थित सोमेश्वर धाम में भी बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने भगवान शिव के दर्शन किए तथा पूजा-अर्चना की। उल्लेखनीय है सोमेश्वर धाम में महाशिवरात्रि पर मेला लगता है और बड़ी संख्या में श्रद्धालु दर्शन करने आते हैं।    जिला प्रशासन द्वारा सोमेश्वर धाम में भी सभी जरूरी सुविधाएं उपलब्ध करायी गई ताकि श्रृद्धालुओं को पूजा-अर्चना में किसी प्रकार परेशानी न हो। एसडीएम मिशा सिंह, तहसीलदार अजय पटेल, नायब तहसीलदार पलक पिडीहा, टीआई जगदीश सिंह सिद्धू सहित अधिकारियों, कर्मचारियों तथा वालेंटियर्स द्वारा सुबह से ही सोमेश्वर धाम में उपस्थित रहकर व्यवस्थाएं संभाली गईं ।   

Dakhal News

Dakhal News 21 February 2020


bhopal, MP Tourism, Council\

भोपाल। मध्यप्रदेश टूरिज्म एवं काउंसिल द्वारा समर कैम्‍प 2020 का आयोजन अब केरवा जंगल में किया जायेगा। कैम्‍प के माध्यम से स्कूली छात्र-छात्राओं और आदिम जाति के छात्रावासों के बच्चों को प्रशिक्षण सहित विभिन्न स्‍पर्धाएं कराई जायेंगी। यह जानकारी जिला कलेक्टर तरूण पिथोड़े ने होटल पलाश में गुरुवार को आयोजित मध्यप्रदेश टूरिज्म एवं काउंसिल की बैठक में दी।    बैठक में कलेक्‍टर ने निर्देश दिए कि इस समर कैम्‍प में स्कूल, कॉलेजों से संपर्क कर सभी को आमंत्रित किया जाए। उन्‍होंने कहा कि पर्यावरण के प्रति जागरूकता बढ़ाने और संरक्षण करने के लिए यह महत्वपूर्ण होगा। पिथोड़े ने कहा कि सभी स्कूलों में वार्षिक परीक्षाओं के पश्चात मार्च अंत में समर कैम्प का आयोजन किया जायेगा, जिससे अधिक से अधिक छात्र-छात्राएं भाग ले सकेंगे। उन्होंने कहा कि आदिम जाति और जिला शिक्षा अधिकारी इस संबंध में अपनी तैयारियां पूर्ण रखें। साथ ही बच्चों को चयनित कर केम्प में भाग दिलाना सुनिश्चित करें। उन्‍होंने कहा कि इस समर कैम्प के माध्यम से विद्यार्थियों को विभिन्न कलाओं में निपूर्ण बनाने के अलावा जागरूक करना भी है।   कलेक्टर ने आगामी त्यौहारों के दृष्टिगत होली पर्व पर नागरिकों को जागरूक करने की बात कही। उन्होंने कहा कि होलिका दहन इस बार गौकाष्ठ से किया जाये, जिससे पर्यावरण को बचाया जा सके। उन्‍होंने कहा कि पर्यावरण को बचाने के लिए कई सामाजिक संस्थाएं भी इस ओर अपने कार्य कर रहीं हैं। होली पर पानी का दुरूपयोग रोकें और होली पर हानिकारक रंगों से बचकर टेसू के फूलों से होली खेलें। इससे कैंसर, त्वचा रोग और आंखों के रोगों से बचा जा सकता है। उन्होंने कहा कि रैली, नुक्कड़ नाटकों के माध्यम से भी आम जनों को जागरूक किया जाये।   पिथोड़े ने कहा कि पर्यावरण संरक्षण आज जरूरी है, इसके दुष्प्रभावों से बचने के लिए हमें एकरूपता से कार्य करना है। साथ ही जागरूक बनने की दिशा में अग्रसर होना है। स्कूली विद्यार्थी इस और विशेष पहल कर शहर के नागरिकों को जागरूक करने में अपनी भूमिका निभायें। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी समाज की दिशा बदल सकता है और पर्यावरण को भी बचा सकता है, हमें जागरूक होना है और आमजनों को भी जागरूक करना है। कलेक्टर ने सभी शहरवासियों से होलिका दहन में गौकाष्ठ का उपयोग करने की अपील की। बैठक में डीआईजी इरशाद वली, वरिष्ठ आईएफएस अधिकारी रमेश प्रताप सिंह, नगर निगम कमिश्नर विजय बी दत्ता, डीएफओ हरीशचंद्र मिश्रा, अनुविभागीय अधिकारी, काउंसिल के सदस्यों सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।  

Dakhal News

Dakhal News 20 February 2020


burhanpur, rare coincidence, Mahashivratri

बुरहानपुर। शुक्रवार को जिलेभर में हर्षोल्लास के साथ महाशिवरात्रि मनाई जाएगी। शिवरात्रि से पहले भोले के दरबार को सजाया गया। जिलेभर के शिव मंदिरों पर फूलों, लाइट से सजावट की गई है। एक दिन पहले गुरुवार को मंदिरों में शिवरात्रि की तैयारियां चलती रही।     महाशिवरात्रि हिंदू धर्म के प्रमुख त्योहरों में से एक है। शिव भक्त साल भर अपने आराध्य भोले भंडारी की विशेष आराधना के लिए इस दिन की प्रतीक्षा करते हैं। इस दिन शिवालयों में शिवलिंग पर जल, दूध और बेल पत्र चढ़ाकर भक्त शिव शंकर को प्रसन्न करने की कोशिश करते हैं। मान्यता है कि महाशिवरात्रि के दिन जो भी भक्त सच्चे मन से शिविलंग का अभिषेक या जल चढ़ाते हैं उन्हें महादेव की विशेष कृपा मिलती है। कहते हैं कि शिव इतने भोले हैं कि अगर कोई अनायास भी शिवलिंग की पूजा कर दे, तो भी उसे शिव कृपा प्राप्त हो जाती है। यही कारण है कि भगवान शिव शंकर को भोलेनाथ कहा गया हैं।    दुर्लभ संयोग में मनेगी महाशिवरात्रि   बुरहानपुर से रावेर जाते हुए मुख्य मार्ग पर स्थित शिव धाम बहादरपुर में महाशिवरात्रि की तैयारिया पूर्ण कर ली गयी है। मंदिर संरक्षक पंडित वीरभान चतुर्वेदी ने बताया कि प्रतिवर्ष अनुसार शिव धाम में महाशिवरात्रि की तैयारियां पूर्ण कर ली गई है। महाशिवरात्रि पर ब्रह्म मुहूर्त में सुबह 4 बजे पंडित वीरभान चतुर्वेदी के परिवार द्वारा अभिषेक किया जाएगा। इसके बाद ओमकारेश्वर से कावड़ यात्रा द्वारा लाए गए मां नर्मदा के जल से अभिषेक पूरे दिवस जारी रहेगा।    शिव धाम के गुरुजी पंडित योगेश चतुर्वेदी ने बताया कि इस वर्ष महाशिवरात्रि दुर्लभ संयोग के साथ सर्वार्थ सिद्धि योग लेकर आ रही है। विशेषकर विष योग और सर्प दोष से  पीडि़त जातकों के लिए यह  सुनहरा अवसर रहेगा। यह योग विगत 117 और 28 वर्ष बाद महाशिवरात्रि पर हमें प्राप्त हो रहा है। इस योग में भगवान शिव का पूजन करने से समस्त मनोकामनाएं पूर्ण होगी। योगेश गुरुजी ने बताया कि विष योग से पीडि़त जातकों को प्रदोष काल में भगवान शिव का पूजन करने से विशेष लाभ प्राप्त होगा। साथ ही सर्प दोष से पीडि़त व्यक्तियों को भगवान शिव पर चांदी का नाग नागिन का जोड़ा अर्पण करने से सर्प दोष के प्रभाव में कमी आएगी। भगवान शिव का पूजन महाशिवरात्रि के दिन महानिशीथकाल रात्रि में विशेष फलदाई होता है।    गुरुजी ने बताया कि शिव धाम बहादरपुर में महाशिवरात्रि की रात 12 बजे भगवान शिव का समस्त भक्तो के लिए  अभिषेक पूजन कर  विशेष शृंगार और महाआरती की जाएगी। भक्तों को साल भर सुख, शांति, आरोग्य, व्यापार में उन्नति और भगवान शिव की कृपा प्राप्ति के लिए आशीर्वाद स्वरूप  सिक्का, फूल, चावल प्रदान किए जाएगे।    कावड़ यात्रा पहुंची शिवधाम   महाशिवरात्रि की पूर्व संध्या पर कावडि़ए माँ नर्मदा का जल लेकर बहादरपुर स्थित शिवधाम पहुंचे। शोभालाल शर्मा और उमेश शाह के नेतृत्व में 30 वर्षों से कावड़ यात्रा निकाली जा रही है। ओंकारेश्वर से माँ नर्मदा का जल कावड़ में भरकर पद यात्रा प्रारंभ की जाती है। महाशिवरात्रि पर तड़के भगवान शिव का जलाभिषेक किया जाता है। कावड़ यात्रा में करीब 120 कावडि़ए शामिल हुए।   महाशिवरात्रि का विशेष सत्संग आज    आध्यात्मिक संस्था आर्ट ऑफ लिविंग द्वारा शुक्रवार रात्रि 8:30 बजे पाकीजा मॉल के पीछे स्थित मोहन नगर में संस्था सदस्य राजेंद्र चौकसे के निवास स्थान पर महाशिवरात्रि पर्व का विशेष सत्संग आयोजित किया गया है। केंद्र प्रमुख और प्रशिक्षक संतोष देवताले एवं इंजीनियर प्रवीण चौकसे ने बताया कि महाशिवरात्रि के निमित्त आयोजित इस विशेष सत्संग में बेंगलुरु आश्रम की परंपरा अनुसार कर्नाटक शैली में मंत्रोचार के साथ रूद्र पूजा संपन्न होगी। तत्पश्चात स्थानीय व्यक्ति विकास केंद्र के साधक भरत श्राफ, विजय मेहता, राजरानी मेहता, राजेंद्र पवार, विपिन जैन, ईश्वरीय आराधना एवं शिव भक्ति पर आधारित मनमोहन भजनों की प्रस्तुति देंगे।    इस अवसर पर साधकों को ओम नम: शिवाय चेटिंग के साथ-साथ गुरु वाणी में शिव ध्यान भी कराया जाएगा तथा फलीयारी प्रसादी का वितरण भी होगा। लक्ष्मण मित्तल, योगेश श्रॉफ, विजय दुमबानी, रविंद्र पंडित ने समस्त संस्था सदस्यों और नगर वासियों से इस महाशिवरात्रि पर्व के विशेष सत्संग में उपस्थिति का आग्रह किया है।  

Dakhal News

Dakhal News 20 February 2020


sidhi, Three dead, four injured , mud blasting mine

सीधी। जिले के मझौली थाना क्षेत्र अंतर्गत मड़वास चौकी के ग्राम भुमका में गुरुवार को दोपहर में ग्रामीण महिलाएं घर की पुताई के लिए सफेद मिट्टी की खदान पर खुदाई कर रही थीं। इसी दौरान अचानक खदान धंसक गई, जिससे महिलाएं मिट्टी में दब गई। इस हादसे में तीन महिलाओं की मौत हो गई, जबकि चार अन्य महिलाएं गंभीर रूप से घायल हो गईं। सूचना मिलने पर पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे और घायलों को इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया। वहीं, मृतक महिलाओं के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू की। हादसे के बाद ग्राम भुमका में मातम छा गया। मड़वास पुलिस के अनुसार, ग्राम भुमका में आसपास के गांव की कुछ महिलाएं घरों की पुताई के लिए पास ही सफेद मिट्टी की खुदाई करने के लिए गई थी। गुरुवार को दोपहर करीब साढ़े तीन बजे अचानक खदान धंसक गई, जिससे वहां खुदाई कर रही महिलाएं मिट्टी में दब गईं। मौके पर मौजूद अन्य महिलाओं ने तत्काल ग्रामीणों को सूचना दी। ग्रामीणों ने मौके पर पहुंचकर पुलिस को सूचना दी। जानकारी मिलते ही पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों की मदद करीब एक घंटे की मशक्कत महिलाओं को खदान से बाहर निकाला जा सका, लेकिन तब तक तीन महिलाओं की मौके पर ही मौत हो गई थी। मृतकों की पहचान ग्राम भुमका निवासी 35 वर्षीय रामबाई पत्नी जयराम सिंह निवासी ग्राम भुमका, 40 वर्षीय उर्मिला पत्नी दादू सिंह निवासी टिकरी और 60 वर्षीय बुटइया बाई पत्नी छोटेलाल निवासी बेलगांव के रूप में हुई है। तीनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मझौली भेजा गया है।वहीं, हादसे में चार अन्य महिलाएं घायल हुई हैं, जिन्हें इलाज के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मड़वास में भर्ती कराया गया है। घायलों में 35 वर्षीय शीषकली पत्नी रामलखन साकेत निवासी टिकरी, 32 वर्षीय सुनीता पत्नी आशीष साकेत निवासी टिकरी, 28 वर्षीय शोभा पत्नी राजबहादुर निवासी भुमका और 36 वर्षीय अनीता पत्नी हरिभजन केवट निवासी टिकरी शामिल हैं। घायलों में शीषकली बाई को प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर हालत में सीधी जिला अस्पताल रैफर किया गया है। मड़वास चौकी प्रभारी खुमान सिंह पटेल ने बताया कि पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर लिया है और मामले की जांच शुरू कर दी है।

Dakhal News

Dakhal News 20 February 2020


ujjain, Lord Mahakal ,appeared, devotees i, Shiva-Tandava

उज्जैन। उज्जैन स्थित विश्व प्रसिद्ध ज्योतिर्लिंग भगवान महाकालेश्वर मंदिर में मनाई जा रही महाशिव नवरात्रि के आठवे दिन गुरुवार शाम को पूजन के बाद भगवान महाकाल ने शिव तांडव के स्वरूप में भक्तों को दर्शन दिये। इस दौरान हजारों श्रद्धालुओं ने बाबा महाकाल के दर्शन किये। मंदिर समिति के प्रशासक एसएस रावत ने बताया कि महाकालेश्वर मंदिर में गत 13 फरवरी से शिवरात्रि की शुरुआत हुई थी, जो कि महाशिवरात्रि तक चलेगी। शुक्रवार, 21 फरवरी को महाशिवरात्रि का पर्व धूमधाम से मनाया जाएगा। शिव नवरात्रि के आठवें दिन गुरुवार को सुबह महाकाल मंदिर के शासकीय पुजारी घनश्याम शर्मा के आचार्यत्व में 11 ब्राहम्णों द्वारा भगवान महाकाल का अभिषेक एकादश-एकादशनी रूद्रपाठ से किया गया। इसके बाद शाम को पूजन के बाद बाबा महाकाल को नवीन वस्त्र धारण करवाये गये। इसके अतिरिक्त मेखला, दुपट्टा, कटरा, मुकुट, छत्र, मुण्ड माला एवं फलों की माला आदि धारण कराई कराकर शिव तांडव स्वरूप में श्रृंगारित  किया गया। बाबा महाकाल के शिव तांडव स्वरूप के दर्शन करने के लिए मंदिर में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी। हजारों लोगों ने भगवान के दर्शन कर पूजन-अर्चन का लाभ लिया। प्रशासक  रावत ने बताया कि शुक्रवार, 21 फरवरी को महाशिवरात्रि का पर्व धूमधाम से मनाया जाएगा। इस दौरान अलसुबह 2.30 बजे भगवान महाकालेश्वटर मंदिर के पट खुलेंगे और इसके बाद 2.30 बजे से 4.30 बजे तक भस्मारती होगी। वहीं, दद्योदन आरती प्रात: 7.30 बजे से प्रात: 8.15 बजे की जायेगी। भोग आरती प्रात: 10.30 बजे से 11.15 होगी। महाशिवरात्रि पर भगवान महाकाल का सतत जलधारा से अभिषेक होगा। दोपहर 12 बजे गर्भगृह में उज्जैतन तहसील की ओर से पूजा की जाएगी और सायं 04 बजे होलकर एवं सिंधिया स्टेसट की ओर से पूजन होगा। संध्या आरती शाम 5.30 बजे होगी। कोटेश्वर भगवान का पूजन रात्रि 8 बजे से 10 बजे पूजन होगा। भगवान महाकाल को रात्रि 10.30 बजे के बाद जलपात्र से जल चढऩा बंद हो जायेगा तथा महापूजन प्रारंभ होगा। शनिवार को दोपहर में होगी भस्मारतीइसी प्रकार महाशिवरात्रि के अगले दिन 22 फरवरी को सुबह 4 बजे से सेहरा चढऩा और सुबह 6.00 बजे सेहरा आरती होगी। प्रात: 11 बजे से सेहरा उतरना प्रारंभ होगा। दोपहर 12 बजे से 2 बजे तक भस्मारती होगी। दोपहर 2.30 बजे से 3 बजे तक भोग आरती और उसके बाद ब्राह्मण भोज होगा। संध्या पूजन शाम 5 बजे से 5.45 बजे भगवान को जल चढऩा बंद होगा। शाम 6.30 बजे से 7.15 बजे तक संध्याण आरती और रात्रि 10.30 बजे शयन आरती के बाद पट मंगल हो जायेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 20 February 2020


annuppur, Chief Minister, help scheme, implemented

अनूपपुर। पूर्व विधायक एवं पूर्व अध्यक्ष मप्र. राज्य अनुसूचित जनजाति आयोग रामलाल रौतेल ने भोपाल में आदिम जाति कल्याण मंत्री ओमकार सिंह मरकाम से बुधवार को मुलाकात कर मुख्यमंत्री मदद योजना प्रदेश के सभी जिलों में लागू करने की मांग की है। मंत्री मरकाम ने अस्वत किया कि यह बात वह मुख्यमंत्री तक पहुंचा कर उक्त विषय पर चर्चा करेंगे। मंत्री ने सर्वहित की बात कहते हुए इस बात को मुख्यमंत्री तक पहुंचाए जाने एवं योजना को सभी जिलों में लागू करने के लिए आश्वासन दिया।   पूर्व विधायक ने बताया मुख्यमंत्री योजना 313 विकासखंड के 89 पर लागू है। यह योजना सभी अनुसूचित जाति के लिए एक वरदान के समान है इसके अंतर्गत जन्म के समय सुखद अवसर एवं मृत्यु के बाद दुखद घटना में सामाजिक संस्कारों का निर्वहन करना पड़ता है योजना में परिवार को 50 एवं 100 किलो राशन उपलब्ध कराया जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 19 February 2020


bhopal,  ancient memorial temple, new form, Namaste Orchha Festival

भोपाल । निवाड़ी जिले में पुरातत्व धरोहर को समेटे ओरछा नगर करीब 50 प्राचीन स्मारकों और मंदिरों के कारण जाना जाता है। राज्य सरकार ने जब ओरछा में महोत्सव की योजना तैयार की, तो सबसे पहले यहां स्थित प्राचीन स्मारकों को सुंदर बनाने के कार्य पर भी विचार कर निर्णय लिया गया। ओरछा के प्राचीन स्मारक फिर से सज्जित और अलंकृत होकर नये स्वरूप में पर्यटकों के सामने आएंगे। महोत्सव के दौरान ओरछा की ऐतिहासिक गाथा थ्री-डी मेपिंग से जहाँगीर महल की दीवारों पर देखी जा सकेगी।    आम तौर पर स्मारकों पर घास, काई आदि जम जाने के कारण उनकी सुंदरता और भव्यता पर आंच आती है। इसके साथ ही मूल निर्माण के समय दीवारों पर किए गए रंग के अनुकूल उन्हें सज्जित करने की चुनौती भी सामने आती है। प्रशासन ने पुरातत्व विशेषज्ञों के परामर्श के पश्चात स्मारकों के सुधार कार्य के लिये डेढ़ करोड़ रुपए की राशि स्वीकृत करवाई। इससे 15 प्रमुख पुरातात्विक महत्व के स्मारकों को वास्तविक स्वरूप के अनुसार स्वच्छ और सुदंर बनाने का कार्य शुरू हुआ।   इस संबंध में जनसंपर्क अधिकारी अशोक मनवानी ने बुधवार को बताया कि ओरछा के ऐतिहासिक स्मारक राम राजा मंदिर, राजा महल, जहाँगीर महल, लक्ष्मी मंदिर, राय प्रवीण महल और बुंदेली शासकों की छतरियों की साफ-सफाई का कार्य भी हाथ में लिया गया। यह कार्य लगभग पूर्ण होने की स्थिति में है। चतुर्भुज मंदिर की रंगाई-पुताई और सफाई वैज्ञानिक पद्धति से करने का कार्य अंतिम चरण में है।   उन्‍होंने बताया कि ओरछा में पुरा-स्मारकों को दृष्टव्य बनाने और पर्यटकों की सुविधा की दृष्टि से निखारने के लिये निर्धारित मानकों के अनुसार कार्य किया जा रहा है। ओरछा नगर की पहचान बन चुके ये प्राचीन स्मारक पर्यटन की असीम संभावनाओं को साकार करेंगे। आगामी 6 से 8 मार्च तक 'नमस्ते ओरछा'' महोत्सव में इस दिशा में की गई पहल दिखाई देगी।  

Dakhal News

Dakhal News 19 February 2020


bhopal, MP weather, increase, day and night temperature

भोपाल। इस साल मध्य प्रदेश में मौसम का मिजाज हर रोज बदल रहा है। कभी ठंड तो कभी तेज गर्मी से तापमान में उतार-चढ़ाव बना हुआ है वहीं इन दिनों हवा दक्षिण से चलने लगी हैं। हवा की दिशा दक्षिण से होने से मौसम वैज्ञानिक भी हैरान हैं, क्योंकि आमतौर पर दक्षिण से हवा मई के महीने में चलती हैं और ये हवाएं ही क्षेत्र में मानसून लेकर आती हैं। फिलहाल मौसम विभाग स्पष्ट रूप से कुछ नहीं कह पा रहा है। लेकिन अभी दिन और रात के तापमान में बढ़ोत्तरी की संभावना मौसम विभाग ने जताई है।    सीहोर जिले के रिकार्ड में इस साल पहली बार सबसे अधिक बारिश हुई है। इस साल जिले में 175 सेमी औसत बारिश और सीहोर ब्लॉक में 205 सेमी से अधिक बारिश दर्ज हुई है। अच्छी बारिश के बाद सीजन में तेज ठंड की भी संभावना बन रही थी। लेकिन अपेक्षा के अनुसार इस साल ठंड कम पड़ी। आधे से ज्यादा फरवरी महीना बीत गया है लेकिन मौसम विभाग अभी सर्दी की विदाई को लेकर स्पष्ट रूप से कुछ नहीं कह पा रहा है। आए दिन पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो जाता है और बादल छा जाने से मौसम का मिजाज बदल जाता है। लेकिन इन दिनों एक बड़ा बदलाव सामने आ रहा है। चार दिन और हवा दक्षिण से ही चलेंगी। जबकि फरवरी या मार्च के महीने में दक्षिण से हवा नहीं चलती। पिछले कई सालों में ऐसा एक बार भी नहीं हुआ है।    दक्षिणी हवा का असर  वरिष्ठ मौसम विशेषज्ञ डॉ. तोमर के अनुसार दक्षिण से हवा आमतौर पर मई के महीने में चलती है। ये हवा अरब सागर और बंगाल की खाड़ी से मानसून लेकर आती है। लेकिन इस साल फरवरी महीने में ही दक्षिण से हवा चलने लगी हैं। ऐसा पहली बार हुआ है।   तापमान बढ़ेगा, बादल छाए रहेंगे डॉ. तोमर के अनुसार अब दिन और रात के तापमान में बढ़ोत्तरी होगी। ऐसे में बादल युक्त मौसम रहेगा। दक्षिण से आ रही हवा से मौसम में क्या असर होगा इस पर अध्ययन किया जा रहा है।    

Dakhal News

Dakhal News 19 February 2020


khargon,  Film actor Govinda ,shatter the dance ,Navagraha Mahotsav

खरगोन। मध्यप्रदेश के खरगोन जिले में इन दिनों नवग्रह महोत्सव धूमधाम से मनाया जा रहा है। यहां रात में सांस्कृति एवं गीत-संगीत के कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं। सोमवार की रात यहां मुशायरे का आयोजन किया गया, जबकि मंगलवार की रात यहां डांस का कार्यक्रम होगा, जिसमें फिल्म अभिनेता गोविन्दा अपने डांस का जलवा बिखेंगे।  सहायक जनसम्पर्क संचालक पुष्पेन्द्र वास्कले ने मंगलवार को इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि खरगौन नगर पालिका द्वारा आयोजित 128वां नवगृह मेला अपने पूरे शबाब पर है। इस मेले में शहर सहित विभिन्न क्षेत्रों के लोग बड़ी संख्या में अपने परिवार के साथ पहुंच रहे हैं और झूले सहित खाने-पीने की चीजों का आनंद ले रहे हैं। यहां संस्कृति विभाग और जिला प्रशासन के सहयोग से रंगारंग सांस्कृति आयोजन किये जा रहे हैं। मंगलवार की रात सुपर स्टार गोविंदा अपने डांस की प्रस्तुति देंगे। वे तीन घंटे तक कार्यक्रमों की प्रस्तुति देंगे। उनके साथ आर्केस्ट्रा, डांस ग्रुप और लाफ्टर के कलाकार भी रहेंगे। उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम में प्रदेश की संस्कृति मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ भी मुख्य अतिथि के रूप में शामिल होंगी। वहीं विशिष्ठ अतिथि के रूप में जिले के प्रभारी मंत्री सज्जनसिंह वर्मा, गृहमंत्री बाला बच्चन, कृषि मंत्री  सचिन यादव सहित अन्य विधायक शामिल होंगे। नवगृह महोत्सव में सोमवार रात मुशायरे का आयोजन किया गया था, जिसमें राहत इंदौरी ने अपनी शायरी से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। इस कार्यक्रम में अमरावती के शायर अबरार कासिफ, उत्तर प्रदेश से हाशिम फिरोजाबादी, भोपाल के विजय तिवारी, बुरहानपुर से नईम अख्तर खादमी, उज्जैन से सिराज अहमद, रतलाम के अब्दुल कलाम खोकर ने भी अपनी गजलों से लोगों का मनोरंजन किया।

Dakhal News

Dakhal News 18 February 2020


bhopal,  After three to four days, severe weather , increase further

भोपाल। मध्य प्रदेश में मौसम के तेवर तीखे होने लगे हैं। इसी वजह से दिन भी तपने लगे हैं। राजधानी भोपाल में सीजन में पहली बार पारा 29 डिग्री पार पहुंच गया है। मंगलवार को धूप चटकने से सुबह तीन घंटे में ही पारा 12.8 डिग्री ऊपर चढ़ गया था। वहीं, सोमवार को दिन और रात के तापमान में 18.6 डिग्री का अंतर रहा।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा का कहना है कि तीन-चार दिन बाद दिन के तापमान में और इजाफा होने की संभावना है। यह 31 डिग्री पार पहुंच सकता है। सोमवार को दिन का तापमान 29.4 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से 0.6 डिग्री ज्यादा रहा। मंगलवार को भी सुबह से तीखी धूप खिली ही हुई है।   सुबह से शाम तक पारे की चाल   शाम को हवा का रुख बदलकर उत्तरी हो जाता है। उत्तर से आने वाली सर्द हवा के कारण अभी रात में ठंडक बनी हुई है। सोमवार को रात का तापमान 10.8 डिग्री दर्ज किया गया। इसमें करीब 1 डिग्री का इजाफा हुआ, इसके बावजूद यह सामान्य से 3 डिग्री कम रहा। रात में ठंडी हवा भी चली।  

Dakhal News

Dakhal News 18 February 2020


sidhi,  Ministers Jaiswal and Patel, inaugurated , decay-free campaign

सीधी। प्रदेश के खनिज साधन मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री प्रदीप जायसवाल तथा पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री कमलेश्‍वर पटेल ने सोमवार को क्षय उन्मूलन कार्यक्रम अंतर्गत “ऐक्टिव केस फाइण्डिन्ग सर्वे अभियान” का शुभारंभ हरी झण्डी दिखाकर किया गया। इस अभियान के संदेश को प्रचारित करने के लिए उन्‍होंने जिला स्तरीय रैली को रवाना किया। इस अवसर पर जिला कलेक्टर रवीन्द्र कुमार चौधरी, पुलिस अधीक्षक आर. एस. बेलवंशी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी. एल. मिश्रा सहित चिकित्सक एवं दल के सदस्य उपस्थित रहे।   इस मौके पर मंत्री जायसवाल एवं पटेल ने निर्देशित किया कि अभियान का पूरे जिले में प्रभावी क्रियान्वयन किया जाए। ग्रामीण एवं दूरस्थ इलाकों के प्रत्येक ग्रामवासी का स्वास्थ्य परीक्षण कर क्षय रोगियों की पहचान की जाए तथा उन्हें उचित स्वास्थ्य सेवाएं प्रदाय की जाए। उन्होंने कहा कि इस अभियान का व्यापक प्रचार-प्रसार भी किया जाना आवश्यक है, जिससे लोगों में क्षय रोग के प्रति जागरुकता आए और वे अपने आस-पास के क्षय रोगियों की पहचान कर शासन द्वारा प्रदाय की जा रही सेवाओं का लाभ दिला पायें। जिले को क्षय मुक्त बनाने के लिए सभी को सार्थक प्रयास करने के लिए कहा गया।   मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिश्रा ने बताया कि यह अभियान 17 फरवरी से 3 मार्च 2020 तक चलाया जाएगा, जिसमें चिन्हित ग्रामों में घर से घर सर्वे कर क्षय रोगियों की खोज की जाएगी। सर्वे में पाए गए मरीजों को निःशुल्क जांच, उपचार एवं निक्षय पोषण योजना के अंतर्गत 500 रुपये प्रतिमाह उनके खाते में प्रदान किया जाएगा। सर्वे के दैरान ऐसे मरीजों का एच.आई.वी. एवं डायबिटीज की भी जांच कराई जाएगी। इसके साथ ही 6 साल से छोटे बच्चों की भी स्क्रीनिंग बाल्य रोग विशेषज्ञों द्वारा की जाएगी। इस अभियान में संलग्न सर्वे टीम को शासन के निर्देशानुसार एक रोगी पंजीकृत कराने पर 500 रुपये की प्रोत्साहन राशि देने का प्रावधान है।   इस अभियान के सफल संचालन के लिए जन प्रतिनिधियों, गणमान्य एवं जागरुक नागरिकों तथा स्वयंसेवी संगठनों से अपील की गयी है कि दो सप्ताह से अधिक खांसी आने पर इस अभियान के अंतर्गत या पृथक से नजदीकी शासकीय क्षय जांच केन्द्र में बलगम की जांच एवं उपचार कराएं तथा जिले को क्षय मुक्त बनाने में शत-प्रतिशत सहयोग करें।

Dakhal News

Dakhal News 17 February 2020


bhopal, Culture Minister , inaugurate Khajuraho festival

भोपाल । प्रदेश की संस्कृति, आयुष और चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ गुरुवार, 20 फरवरी को खजुराहो महोत्सव का शुभारंभ करेंगी। यह जानकारी सोमवार को जनसंपर्क अधिकारी अशोक मनवानी ने दी।    उन्‍होंने बताया कि संस्कृति विभाग की उस्ताद अलाउद्दीन खाँ संगीत एवं कला अकादमी का यह वार्षिक महोत्सव 7 दिवसीय रहेगा। विश्‍व धरोहर स्मारक खजुराहो के पश्चिम मंदिर समूह परिसर में खजुराहो नृत्य समारोह में देश-विदेश के विख्यात कलाकार नृत्य प्रस्तुतियां देंगे।  

Dakhal News

Dakhal News 17 February 2020


mandsour,  Pashupatinath Temple, hold unprecedented event , Mahashivratri festival

मंदसौर। जगपसिद्ध भूत भावन भगवान श्री पशुपतिनाथ महादेव मंदिर पर शुक्रवार 21 फरवरी को महाशिवरात्री पर्व के उपलक्ष्य में अभूतपूर्व आयोजनकिये जावेंगे।प्रातःकाल आरती मण्डल के तत्वाधान में प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी महारूद्राभिषेक आयोजित होगा, इस दिन सुबह 4 बजे गर्भगृह के पट खुलेंगें तथा प्रातः 6 बजेविशेष पूजन अभिषेक किया जावेगा। रात्रि में 4 पहर के 4 महारूद्राभिषेक, 4 आरती होगी। भगवान श्री पशुपतिनाथ प्रातः काल आरती मण्डल के अध्यक्ष पं.दिलीप शर्मा, प्रवक्ता उमेश परमार ने यह जानकारी देते हुए बताया कि, इस वर्ष महाशिवरात्री पर्व पर भगवानश्री पशुपतिनाथ महादेव की अष्टमुखी प्रतिमा का पहला अभिषेक मण्डल की ओर से प्रातः 06 बजे किया जाएगा शिवरात्रि पर्व पर भूतभावन भगवान की रात्रिकालीन पूजा अर्चना का विशेष महत्व होता हैं, उन्होने बताया कि, इसी क्रम में आरती मण्डल की ओर से रात के चारो पहर में चार अभिषेक तथा चार विशेष आरती के आयोजन होगें रातभरमंदिर में भजन-कीर्तन चलेगें शिवरात्रि पर ग्रामीण क्षेत्रों से कई भजन मण्डलियां यहां आती हैं इसके अलावा नगर के कई शिवभक्त रात्रिकालीन पूजा-अर्चना में शामिल होते हैं, रातभर शिवभक्ति का अनूठा संगम यहा दिखाई देता है। उन्होंने बताया कि, प्रातःकाल आरती मण्डल युवा टीम द्वारा भक्तजनों को सुबह से ही साबुदाने एवं मिष्ठानों से युक्तखीर 11 क्विंटल का भोग लगाकर वहीं पर वितरित किया जावेगा। रात भर होगा विशेष श्रृंगार भगवान आशुतोष की रात्रिकालीन आराधना के संदर्भ में प्रतिमाह का विशेष श्रृंगार किया जावेगा, चारों अभिषेक व आरती के समय प्रतिमा का श्रृंगार बदला जावेगा, हर बारआकर्षक नैयनाभीराम श्रृंगार किया जावेगा व 4 आरती भी की जावेगी और धर्मालुजनों को प्रसाद वितरित किया जावेगा। उन्होंने धर्मालुजनो से अधिक-से-अधिक संख्या मेंमंदिर पहुंचकर प्रातः व रात्रि में विशेष धर्मलाभ लेने की अपील की है। अखण्ड रामायण पाठ का आयोजन शुरू सर्किट हाउस के समीप पशुपतिनाथ मंदिर द्वार के यहां स्थित भटनागर कृषि फार्म हाउस पर स्थित अति प्राचीन नर्बदेश्वर महोदव मंदिर पर पंपरानुसार तीन दिवस कीअखण्ड रामायण पाठ का आयोजन विधि विधान से गुरूवार को शुरू होगा, यहां अखण्ड रामायण का पाठ तीन दिवस तक चलेगा व महाशिवरात्री पर्व पर विशेष संपुट के साथचैपाईयों का अनुवादन भजन मंडलियों द्वारा किया जावेगा। राम जी लोकेन्द्र भटनागर ने बताया कि, नर्बदेश्वर महादेव मंदिर पर विगत 37 वर्षो से महाशिवरात्री के उपलक्ष्णमें अनवरत्त रूप से पाठ होता चला आ रहा है यहां इस वर्ष भी पाठ शुरू हो गया हैं, 23 फरवरी के दिन पूर्णावर्ति होगी और इसी दिन महाप्रसादी का आयोजन किया जावेगा, उन्होंने धर्मलाभ लेने का आहृ्वान किया।  

Dakhal News

Dakhal News 17 February 2020


bhopal, Sarni Power House ,sets record ,100 consecutive days , power generation

भोपाल । मध्यप्रदेश पावर जनरेटिंग कम्पनी की सतपुड़ा ताप विद्युत ग्रह सारनी के पावर हाउस क्रमांक-4 की इकाई 10 एवं 11 द्वारा विगत 6 नवम्बर से 14 फरवरी तक लगातार 100 दिन रिकार्ड विद्युत उत्पादन कर नया कीर्तिमान बनाया है। प्रत्येक इकाई 250 मेगावाट की है। यह जानकारी शुक्रवार को जनसंपर्क अधिकारी राजेश पाण्डेय ने दी।    उन्‍होंने बताया कि ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने इस उपलब्धी पर सारनी पावर हाउस के पूरे स्टाफ को बधाई दी है। मंत्री सिंह ने कहा है कि आगे भी इसी तरह कार्य करते हुये उत्पादन के नये आयाम स्थापित करें। उल्लेखनीय है कि दोनों इकाईयों से विद्युत उत्पादन लगातार जारी है। इस अवधि में सारनी पावर हाउस क्रमांक 4 का प्लांट लोड फेक्टर(पीएलएफ) 90.16 और प्लांट एवेलेविलटी फेक्टर (पीएएफ) 101.17 प्रतिशत रहा।

Dakhal News

Dakhal News 14 February 2020


bhopal, Radio tagging ,pangolin took place, Madhya Pradesh ,World Pangolin Day

भोपाल । पेंगोलिन के संरक्षण के प्रति जागरूकता के लिये विश्‍व पैंगोलिंन दिवस फरवरी माह के तीसरे शनिवार यानि 15 फरवरी को मनाया जा रहा है। इस अंतर्राष्ट्रीय प्रयास से पैंगोलिन प्रजाति के बारे में जागरूकता बढ़ती है और विभिन्न संबद्ध संगठरनों को एकत्र कर संरक्षण के प्रयासों को गति दी जाती है। मध्यप्रदेश ने अति लुप्तप्राय प्रजाति में शामिल भारतीय पैंगोलिन के संरक्षण के लिए विशेष पहल की है। वन विभाग और वाईल्ड लाईफ कजंर्वेशन ट्रस्ट ने भारतीय पैंगोलिन की पारिस्थितिकी को समझने और उसके प्रभावी संरक्षण के लिए एक संयुक्त परियोजना शुरू की है।    इस संबंध में वन विभाग की जनसंपर्क अधिकारी सुनीता दुबे ने शुक्रवार को बताया कि इस परियोजना में कुछ पैंगोलिन की रेडियों टेंगिग कर उनके क्रियाकलापों, आवास स्थलों, दिनचर्या आदि का गहन अध्‍ययन किया जा रहा है। दो भारतीय पैंगोलिन का जंगल में सफल पुर्नवास किया गया है। रेडियो टेगिंग की मदद से इन लुप्तप्राय प्रजाति के पैंगोलिन की टेलिमेट्री के माध्यम से सतत निगरानी की जा रही हैं। इस प्रयोग से पैंगोलिन के संरक्षण और आबादी बढ़ाने में मदद मिलेगी। पूरे विश्‍व में चिंताजनक रूप से पैंगोलिन की संख्या में 50 से 80 प्रतिशत की कमी आई है।   एस.टी.एस.एफ. ने किया 11 राज्यों में शिकार और तस्करी का भंडाफोड़ वन्य प्राणी सुरक्षा के लिए प्रदेश में गठित विशिष्ट इकाई एस.टी.एस.एफ ने सभी वन्यप्राणी विशेषकर पैंगोलिन के अवैध शिकार पर और व्यापार को नियंत्रित करने के कारगर प्रयास किये हैं। एस.टी.एस.एफ. ने पिछले कुछ सालों में 11 से अधिक राज्यों के पैंगोलिन के शिकार और तस्करी में शामिल गुटों का सफलता पूर्वक भंडाफोड़ किया है।   चीन और दक्षिण एशियाई देशों में कवच और मांस की भारी मांग पैंगोलिन विश्व में सर्वाधिक तस्करी की जाने वाली प्रजाति है। ये सामान्यत: परतदार चींटी खोर के नाम से पुकारे जाने वाले ऐसे दंतहीन प्राणी हैं जो वन्यप्राणी जगत में अद्वितीय होने के साथ लाखों वर्षों के विकास का परिणाम हैं। पैंगोलिन अपने बचाव के रूप में एक परतदार कवच का उपयोग करता है। यही सुरक्षा कवच आज उसके विलुप्ति का कारण बन गया है। परम्परागत चीनी दवाईयों में इनके कवच की भारी मांग इनके शिकार का मुख्य कारण है। चीन और दक्षिण एशियाई देशों में इनके कवच और मांस की भारी मांग है। इससे वैश्विक रूप से पैंगोलिन प्रजाति की संख्या में तीव्र कमी आई है।   पैंगोलिन की 8 प्रजातियों मे से 2 भारत में पैंगोलिन की आठ प्रजातियों में से एक भारतीय एवं चीनी पैंगोलिन भारत में पाए जाते हैं। चीनी पैंगोलिन उत्तर पूर्वी भारत और भारतीय पैंगोलिन अत्यधिक शुष्क क्षेत्र, हिमालय और उत्तर पूर्वी भारत के अलावा सम्पूर्ण भारत में पाया जाता है। भारतीय पैंगोलिन भारत के अलावा श्रीलंका, बाँग्लादेश और पाकिस्तान में भी पाया जाता है। दोनों प्रजातियों को वन्यजीव (संरक्षण)अधिनियम की अनुसूची- एक में संरक्षण प्राप्त है।   निशाचर प्रजाति होने के कारण भारतीय पैंगोलिन के व्यवहार और पारिस्थितिकी के बारे में बहुत कम जानकारी उपलब्ध है। लुप्तप्राय प्रजातियों के प्रभावशील संरक्षण योजना और विकास के लिए उनकी पारिस्थितिकी जानना अति महत्वपूर्ण है। मध्यप्रदेश वन विभाग और वाइल्ड लाईफ कंजर्वेशन ट्रस्ट रेस्क्यू किये गये पैंगोलिन में से 6 की रेडियों टेगिंग कर अध्ययन करेगा। इससे लुप्तप्राय प्रजाति की जनसंख्या बढ़ाने में मदद मिलेगी।

Dakhal News

Dakhal News 14 February 2020


bhopal, second phase, more than 3200 farmers ,Bhopal district ,waived 19 crore loan

भोपाल।  प्रदेश के सहकारिता मंत्री और जिले के प्रभारी डॉ. गोविंद सिंह आज (शुक्रवार को) राज्य सरकार की महात्माकांक्षी जय किसान फसल ऋण माफी योजना के अंतर्गत बैरसिया विकासखंड के ग्राम दिल्लौद में आयोजित कार्यक्रम में पात्र किसानों के कर्ज माफी के प्रमाण पत्र वितरित करेंगे। कार्यक्रम दोपहर 12 बजे शुरू होगा।  जिला पंचायत सीईओ सतीश कुमार एस ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि राज्य शासन द्वारा कर्ज माफी योजना का दूसरा चरण शुरू किया गया है, जिसके तहत भोपाल जिले के 3200 से अधिक किसानों के 19 करोड़ रुपये से अधिक के ऋण माफ किए गए हैं, उनकी राशि उनके खाते में जमा हो गई है । उन्होंने बताया कि जिले के 2462 किसानों का 13.53 करोड़ रुपये का सहकारी बैंकों का तथा 743 किसानों का 6.68 करोड़ रुपये कामर्शियल बैंकों का ऋण माफ किया गया है। मंत्री गोविंद सिंह कार्यक्रम में जय किसान फसल ऋण माफी योजनांतर्गत इन  किसानों को फसल ऋण माफी के प्रमाण पत्र और किसान सम्मान पत्र वितरित करेंगे। नागरिकों से कार्यक्रम में अधिक से अधिक संख्या में सम्मिलित होने की अपील की गई है।

Dakhal News

Dakhal News 14 February 2020


bhopal, Training ,e-housing portal, Academy of Administration

भोपाल। सम्पदा संचालनालय के नये ई-गवर्नेंस वेब पोर्टल 'ई-आवास' के संचालन के लिये शुक्रवार, 14 फरवरी को प्रशासन अकादमी के स्वर्ण जयंती हाल में एक दिवसीय प्रशिक्षण आयोजित किया जायेगा। अपर सचिव गृह द्वारा जारी आदेशानुसार प्रशिक्षण में भोपाल स्थित सभी शासकीय कार्यालयों के आहरण एवं संवितरण अधिकारी (डी.डी.ओ.) शामिल होंगे। यह जानकारी गुरुवार को जनसंपर्क अधिकारी दुर्गेश रायकवार ने दी।    उन्‍होंने बताया कि सभी शासकीय विभागाध्यक्षों, संभागायुक्त भोपाल, कलेक्टर भोपाल और जिला पंचायत भोपाल के मुख्य कार्यपालन अधिकारी से कहा गया है कि अधीनस्थ कार्यालयों में पदस्थ डी.डी.ओ. तथा उनके तकनीकी सहयोग के लिये कम्प्यूटर कार्य में दक्ष अधिकारी व कर्मचारी को प्रशिक्षण में उपस्थित होने के लिये निर्देशित करें। प्रशिक्षण दोपहर 1.30 बजे से शाम 5.30 बजे तक होगा।

Dakhal News

Dakhal News 13 February 2020


bhopal, Budget session, MP Assembly

भोपाल। मध्यप्रदेश की पंद्रहवीं विधानसभा का बजट सत्र आगामी 16 मार्च से शुरू होगा, जो कि आगामी 13 अप्रैल तक चलेगा। मप्र विधानसभा के इस 29 दिसवीय सत्र में सदन की कुल 17 बैठकें होंगी। राज्यपाल के अनुमोदन के बाद विधानसभा सचिवालय द्वारा इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी गई है। यह जानकारी विधानसभा के अवर सचिव मुकेश मिश्रा ने गुरुवार को मीडिया को दी। उन्होंने बताया कि मध्यप्रदेश विधानसभा के बजट सत्र की शुरुआत आगामी 16 मार्च (सोमवार) को राज्यपाल लालजी टण्डन के अभिभाषण से होगी। यह सत्र 13 अप्रैल-2020 (सोमवार) तक चलेगा। इस दौरान आगामी वित्तीय वर्ष 2020-2021 का बजट प्रस्तुत होगा तथा शासकीय एवं अशासकीय कार्य संपादित किये जायेंगे। यह मध्यप्रदेश की पन्द्रहवीं विधानसभा का पांचवां सत्र होगा।इस सत्र के लिए विधानसभा सचिवालय में अशासकीय विधेयकों की सूचनाएं आगामा चार मार्च तक तथा अशासकीय संकल्पों की सूचनाएं पांच तक प्राप्त की जाएंगी, जबकि स्थगन प्रस्ताव, ध्यानाकर्षण प्रस्ताव तथा नियम 267 के अधीन दी जाने वाली सूचनाएं विधानसभा सचिवालय में नौ मार्च से कार्यालयीन समय में प्राप्त की जाएंगी।

Dakhal News

Dakhal News 13 February 2020


bhopal,  \

भोपाल। मध्‍यप्रदेश में पिछले साल 19 जुलाई से 'शुद्ध के लिए युद्ध' चलाए गए अभियान में जहां मिलावटी अपनी आदत छोड़ने को तैयार नहीं हैं तो दूसरी ओर राज्‍य सरकार ने भी इन मिलावटखोरों से प्रदेश को पूरी तरह मुक्‍त करने का अभियान तेज कर दिया है।    सरकार ने मिठाई, दूध के अन्‍य उत्‍पादों के साथ ही फलों को घातक केमिकल से पकाये जाने वाले एवं उन्हें स्वादिष्ट बनाने के लिए उनमें मीठा पदार्थ डालने वाले मिलावटखोरों के खिलाफ सख्त कदम उठाए हैं। सरकार साग-सब्जियों को ताजा एवं बढ़िया दिखने के लिए उन पर स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक लेपों को लगाने वाले मिलावटखोरों के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई कर रही है। इस मामले में 'शुद्ध के लिए युद्ध' प्रदेशभर में अभियान जारी है। इसमें कार्रवाई को लेकर भोपाल जिला प्रदेश में अव्‍वल बना हुआ है।    मध्य प्रदेश के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री तुलसी सिलावट ने इस अभियान को लेकर राजधानी में गुरुवार को बताया कि सरकार की गंभीरता आप इस बात से समझ सकते हैं कि पिछले साल दिसम्‍बर माह तक ही 32 मिलावटखोरों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई कर दी गई थी, जिसके बाद पिछले देढ़ माह में हमारा यह अभियान निरंतर जारी है। इस दौरान उन्होंने यह भी दावा किया कि देश के इतिहास में यह पहली बार है कि किसी भी राज्य ने मिलवाटखोरों के खिलाफ इतने बड़े स्‍तर पर कार्रवाई की जा रही हो। उन्होंने कहा है कि जब तक मध्यप्रदेश से खाद् पदार्थों में मिलावट की आदत पूरी तरह समाप्त नहीं हो जाती, सरकार का यह अभियान 'शुद्ध के लिए युद्ध'  जारी रहेगा ।    उल्‍लेखनीय है कि मध्‍यप्रदेश के 52 जिलों में से कोई जिला ऐसा नहीं है, जहां पर मिलावटी सामान के नमूने खाद् विभाग ने न लिए हों, अब तक प्रदेशभर से इकट्ठे किए गए नमूनों में हर जिले से इन मिलावटखोरों की धर पकड़ एवं इन पर कानूनी कार्रवाई जारी है। राज्‍य के ग्‍वालियर, जबलपुर, भोपाल, सागर, इंदौर, उज्‍जैन, रीवा, सतना, मुरैना, भिण्‍ड, होशंगाबाद, रतलाम, शिवपुरी, बुरहानपुर, शिवपुरी, गुना में मिलावटी खाद् पदार्थ के बड़े पैमाने पर अब तक सैंपल मिले हैं । राजधानी भोपाल में कलेक्टर तरुण पिथोड़े की निगरानी मे जिले में शुद्धता का अभियान चलाया जा रहा है।  जिला दूध, मावा, पनीर सहित अन्य सभी खाद्य पदार्थों की शुद्धता की जांच के लिये 708 से अधिक नमूने लेकर  भोपाल जिला प्रदेशभर में "शुद्ध के लिए युद्ध" अभियान में अभी शीर्ष स्थान पर बना हुआ है।  

Dakhal News

Dakhal News 13 February 2020


bhopal, National Khajuraho, grand dance ceremony, from 20 to 26 February

भोपाल। राज्य शासन द्वारा विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल खजुराहो में इस वर्ष 20 से 26 फरवरी तक भव्य नृत्य समारोह आयोजित किया जाएगा। भारतीय शास्त्रीय नृत्य शैलियों पर केन्द्रित इस शीर्षस्थ समारोह में प्रतिदिन शाम 7 बजे से भारतीय शास्त्रीय नृत्य शैलियों के श्रेष्ठ कलासाधक अपनी कला का प्रदर्शन करेंगे।   संपर्ण राष्‍ट्रीय नृत्‍य महोत्‍सव आयोजन को लेकर जनसंपर्क अधिकारी ऋषभ जैन ने बताया कि समारोह में खजुराहो के पश्चिम मंदिर समूह के पास स्थित परिसर में  20 फरवरी को उमा शर्मा  दिल्ली कथक, जतिन गोस्वामी गोलाघाट और असम सत्रिया मीरा दास एवं साथी भुबनेश्वर ओडिसी नृत्य प्रस्तुत करेंगे। दूसरे दिन 21 फरवरी को पूजिता कृष्णन हैदराबाद विलासिनी, कृष्ण मोहन मिश्रा नई दिल्ली कथक, लता सिंह मुंशी एवं साथी भोपाल भरतनाट्यम की प्रस्तुति देंगे।    उन्‍होंने बताया कि समारोह के तीसरे दिन 22 फरवरी को शोबना चन्द्रकुमार पिल्लई चेन्नई भरतनाट्यम, सुपर्वा मिश्रा अहमदाबाद ओडिसी, आनन्दा शंकर जयंत एवं साथी हैदराबाद भरतनाट्यम का प्रदर्शन करेंगे। चौथे दिन 23 फरवरी को वाय आशा कुमारी नई दिल्ली ओडिसी, क्षितिजा बर्वे गोवा भरतनाट्यम, रागिनी मक्खर एवं साथी इन्दौर कथक प्रस्तुत करेंगी। पाँचवे दिन 24 फरवरी को एन. श्रीकान्त एवं अश्वथी श्रीकान्त कोजीकोट केरल भरतनाट्यम, नायर सिस्टर्स बैंगलोर मोहिनीअट्टम, नर्तकी नटराज चेन्नई भरतनाट्यम प्रस्तुत करेंगी।   इसके अलावा उनका कहना था कि खजुराहो नृत्य समारोह में छठवें दिन 25 फरवरी को भद्रा सिन्हा और गायत्री वर्मा नई दिल्ली भरतनाट्यम, ऋचा जोशी-दीपक गंगानी नई दिल्ली कथक और मोहिका सक्सेना भोपाल भरतनाट्यम की प्रस्तुति देंगे। समारोह में अंतिम दिन 26 फरवरी को श्रीविद्या हैदराबाद कुचिपुड़ी, इनाक्षी सिन्हा-पवित्र भट्ट मुम्बई ओडिसी+भरतनाट्यम, वासु सिनम एवं साथी इम्फाल मणिपुरी, अमिता खरे एवं साथी भोपाल कथक की प्रस्तुति करेंगे।  

Dakhal News

Dakhal News 10 February 2020


anuppur,  Collector expressed, dissatisfaction warning ,about progress of CM helpline cases

अनूपपुर। कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने सोमवार को समय सीमा की बैठक में सीएम हेल्पलाइन प्रकरणों के निराकरण की प्रगति पर असंतोष व्यक्त करते हुए समस्त विभागीय अधिकारियों को 1 सप्ताह में युद्धस्तर पर कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने आशानुरूप परिणाम प्राप्त न होने पर कठोर अनुशासनात्मक कार्यवाही की बात कहीं। इस दौरान मुख्य कार्यपालन जिला पंचायत सरोधन सिंह, अपर कलेक्टर बीडी सिंह सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।कलेक्टर ने राजस्व विभाग द्वारा 5 वर्ष से अधिक समय के समस्त प्रकरणों के निराकरण पर संतोष व्यक्त करते हुए अगली कड़ी में 2 से 5 वर्ष के बीच लम्बित प्रकरणों को शत प्रतिशत निराकृत करने को निर्देशित किया। उल्लेखनीय है कि जिले में 2 से 5 वर्ष की अवधि के लगभग 175 प्रकरण वर्तमान में लम्बित हैं। इस दौरान कलेक्टर द्वारा जनगणना के कार्यों एवं आगामी पंचायत निर्वाचन की तैयारियों के सम्बंध में आवश्यक निर्देश दिए गए। उन्होंने समस्त विभागीय अधिकारियों को सम्बंधित जिला स्तरीय एवं विकासखंड स्तरीय समितियों में मनोनीत सदस्यों के पुनर्गठन हेतु प्रस्ताव तैयार कर समक्ष स्तर पर अनिवार्य रूप से अनुमोदन हेतु प्रस्तुत करने के लिए निर्देशित किया गया।  खाद्य पात्रता पर्ची सत्यापन का कार्य प्राथमिकता से करें पूर्ण बैठक में कलेक्ट्र ने खाद्य पात्रता पर्ची के सत्यापन की कार्यवाही की वृहद समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने जनपद जैतहरी एवं पुष्पराजगढ़ में सत्यापन की कार्यवाही महज 40 फीसदी होने पर विभागीय अधिकारियों को फटकार लगाते हुए सम्बंधित क्षेत्र में संलग्न दलों की रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा जिन दलों के द्वारा लापरवाही की गयी है उन पर कठोर अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी। कलेक्टर ने अगले सप्ताह उल्लेखित जनपदों की प्रगति रिपोर्ट के साथ 1 सप्ताह में हुई सत्यापन कार्य की पुन: समीक्षा करने के लिए कहा। उन्होंने सत्यापन कार्य में लगे दल के सभी सदस्यों पटवारी, रोजगार सहायक, आँगनवाड़ी कार्यकर्ता सभी को प्राथमिकता के साथ खाद्य पात्रता पर्ची के सत्यापन की कार्यवाही पूर्ण करने के निर्देश देते हुए कहा कार्य में किसी भी प्रकार की कोताही अथवा लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

Dakhal News

Dakhal News 10 February 2020


syopur, Women ,becoming self-reliant ,through self-help group

श्योपुर।  मध्‍यप्रदेश डे आजीविका मिशन के माध्यम से श्योपुर जिले में गठित किए गए स्वसहायता समूहों से महिलाएं आत्मनिर्भर बन रही हैं। साथ ही अपने परिवार की खेती-बाड़ी में भी सहयोग देकर अपनी आय में इजाफा कर रही हैं। इस दिशा में चेंटीखेड़ा की सुशीला कुशवाह पालपुर की गुड़िया योगी एवं त्रिवेणी कुशवाह के स्वसहायता समूहों ने तरक्की की रफ्तार पकड़ी है। जिनका कि यहां उत्‍साह के साथ जिक्र किया जा सकता है।    जिले के विकासखण्ड विजयपुर के ग्राम टेंटीखेड़ी की निवासी सुशीला पत्नी बहुआ कुशवाह द्वारा अपना कैला मैया स्वसहायता समूह गठित किया था। इसी प्रकार ग्राम पंचायत अगरा के ग्राम पालपुर की रहने वाली गुड़िया पत्नी बसंत योगी रनसिंह बाबा स्वसहायता समूह बनाया। इसके साथ ही ग्राम पालपुर की निवासी त्रिवेणी पत्नी बासुदेव कुशवाह ने शंकर स्वसहायता समूह का गठन किया। समूह गठित करने की प्रेरणा डीपीएम आजीविकास मिशन एसके मुदगल द्वारा दी गई। जिसपर अमल करते हुए तीनों समूह के माध्यम से महिलाएं तरक्की की ओर अपने समूह को आगे बढ़ा रही है।   क्षेत्र में मिली इस सब के बीच की जानकारी बताती है कि विजयपुर क्षेत्र की ग्राम टेंटीखेड़ी एवं पालपुर की रहने वाली महिला सुशीला कुशवाह, गुड़िया योगी एवं त्रिवेणी कुशवाह अपने गावं में ही गठित समूहों की महिलाओं के सहयोग से समूह से हो रही आय में वृद्धि करने में सहायक बन रही हैं। जिसके कारण से इन तीनों महिलाओं  का पारिवारिक जीवन  इन दिनों खुशहाली के बदलाव से भर उठा  है।   जिले के विजयपुर विकासखण्ड के ग्राम चेंटीखेड़ा एवं पालपुर निवासी सुशीला कुशवाह, गुड़िया योगी एवं त्रिवेणी कुशवाह ने बताया कि मध्‍यप्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं के उत्थान के लिए कई योजनाएं संचालित की गई हैं। साथ ही स्वसहायता समूह के माध्यम से आर्थिक संबंल प्रदान करने के प्रयास किए जा रहे हैं। हम और हमारा परिवार मप्र सरकार, जिला प्रशासन और आजीविकास मिशन के अधिकारी एवं अन्‍य कर्मचारियों के प्रति आभार मानता है, कि इस सभी के कारण से हमारे परिवार का जीवन स्‍तर तो सुधरा ही है साथ में हम अपने साथ अन्‍य सहयोगी महिलाओं का जीवन भी आज सवांर पा रहे हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 10 February 2020


bhopal,  Madhya Pradesh, some indigenous breeds, cow are in deep trouble

भोपाल। देश में जहां देशी गोवंश को बचाने की जद्दोजहद हो रही है, वहीं मध्यप्रदेश में देशी गोवंश तेजी से घट रहा है। देसी गायों में मालवी, निमाड़ी व केनकाथा पर संगट गहराता जा रहा है। प्रदेश की इन तीनों प्रजातियों की गायों को न केवल किसानों ने उनके हाल पर छोड़ दिया है, बल्कि सरकार ने भी उनके संरक्षण की दिशा में अब तक कोई प्रयास नहीं किया है। लिहाजा इन गायों की नस्ल अब खत्म होने की कगार पर है।  हाल ही में की गई नई पशुगणना के आंकड़ों से भी चौंकाने वाला तथ्य सामने आया है। वर्ष 2012 की पशुगणना के मुकाबले प्रदेश में गोवंश चार फीसदी घट गया है। प्रदेश में गायों की देशी नस्लों को बचाने के लिए शासन ने संरक्षण केंद्र खोल रखे हैं। मध्यप्रदेश पशुधन एवं कुक्कुट विकास निगम के एमडी एचबीएस भदौरिया बताते हैं कि गौवंश घटा है, लेकिन हम प्रदेश की देशी नस्ल सुधार का काम कर रहे हैं। अच्छी बात यह भी है कि मध्यप्रदेश के किसान गिर, साहीवाल जैसी देशी नस्लों को भी प्राथमिकता दे रहे हैं।इसलिए बिगड़ रही देशी नस्लशासकीय पशु चिकित्सा महाविद्यालय के जेनेटिक विभाग के प्रमुख और राष्ट्रीय संगोष्ठी के संयोजक डॉ. एसएस तोमर के अनुसार गाय और भैंसों की जैव विविधता खत्म हो रही है। इसका बड़ा कारण यह है कि हमारे पास देशी सांडों की संख्या कम है। बताया जाता है कि प्रदेश में जरूरत के आधे सांड ही हैं। लंबे समय से एक गांव में एक ही सांड से गायें गाभन होने से वहां अंत:प्रजनन शुरू हो गया। इस कारण देशी नस्ल भी बिगड़ रही है।

Dakhal News

Dakhal News 10 February 2020


chatarpur, Lessons not taken, even after death, digging sand ,side of the bridge

छतरपुर। उर्मिल नदी में पुल के किनारे पूर्व में रेत निकालने के चक्कर में बनाई गई खाई में दबकर एक युवक की मौत हो गई थी जबकि एक अन्य घटना में प्रत्यक्षदर्शियों की तत्परता के कारण एक युवक को बचाया गया था। इन घटनाओं के बावजूद रेत माफिया चंद पैसों की लालच में पुल के किनारे फिर से खाई तैयार कर रहे हैं। मिट्टी से रेत निकालने में लगे हैं जिससे भविष्य में फिर हादसा हो सकता है।    ओरछा रोड थाना अंतर्गत हतना से निकली उर्मिल नदी के पुल के बगल में ही रेत माफिया खाई खोदकर रेत निकाल रहे हैं। भले ही खाई में रेत न हो लेकिन मिट्टी निकालकर उसे माफियाओं द्वारा ट्राली में भरा जाता है और इसके बाद पानी  डालकर उसकी धुलाई की जाती है। दिन भर में कम से कम दो ट्राली रेत निकालकर ऐसे ठेकेदारों के हवाले किया जाता है जो सरकारी काम कराते हैं ताकि मिट्टीयुक्त रेत आसानी से उपयोग में लायी जा सके। सवाल यह नहीं है कि घटिया सामग्री बेची जा रही है सवाल यह है कि पुल के किनारे गहरी खाई खोदने से यह हादसे को आमंत्रण देगा। दो वर्ष पहले इसी क्षेत्र में बालू निकालने के चक्कर में एक युवक मिट्टी में दबकर मौत का शिकार हो गया था। गत वर्ष एक अन्य हादसा भी इसी तरह का इसी क्षेत्र में हुआ था जैसे ही रेत निकालने के चक्कर में युवक गहराई में घुसा वैसे ही ऊपर से मिट्टी धसक गई। आसपास मौजूद लोगों ने तत्काल मिट्टी हटाई और युवक को बाहर निकाल लिया था जिससे उसकी जान बच गई थी। इतने हादसों के बाद भी माफिया खाई खोदने से बाज नहीं आ रहे हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 9 February 2020


bhopal, Applications, 10th and 12th examination ,MP Board

भोपाल/जबलपुर। मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मण्डल (एमपी बोड) ने शिक्षण सत्र 2019-20 के हाईस्कूल और हायर सेकेण्डरी ऑनलाईन परीक्षा आवेदन पत्र भरने वाले विद्यार्थियों को एक ओर मौका दिया है। वे लेट फीस के साथ सोमवार, 10 फरवरी तक अपने आवेदन पत्र जमा कर सकते हैं। संयुक्त जनसम्पर्क संचालक अतुल खरे ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि हाईस्कूल एवं हायर सेकेण्डरी परीक्षा-2020 के जिन नियमित एवं स्वाध्यायी छात्रों ने परीक्षा आवेदन पत्र ऑनलाईन भर दिया, किन्तु परीक्षा शुल्क नहीं भर पाये, वे निर्धारित परीक्षा शुल्क के साथ विलम्ब शुल्क पांच हजार रुपये जमा कर परीक्षा में शामिल हो सकेंगे। इसी तरह जिन छात्र-छात्राओं ने अब तक परीक्षा के लिए आवेदन पत्र नहीं भरा है और वे परीक्षा में शामिल होना चाहते हैं तो वे स्वाध्यायी छात्र के तौर पर ऑनलाईन परीक्षा आवेदन निर्धारित परीक्षा शुल्क और विलम्ब शुल्क साढ़े सात हजार रुपये जमा करके सोमवार, 10 फरवरी तक आवेदन भर सकते हैं।

Dakhal News

Dakhal News 9 February 2020


chatarpur, MP Vanmitra portal , trained at the district level

छतरपुर।  वन अधिकार अधिनियम 2006 के तहत विकसित किए गए एमपी वनमित्र पोर्टल की प्रक्रिया के बारे में जिला स्तर पर मास्टर्स ट्रेनर्स द्वारा छतरपुर जिले के ग्राम पंचायत सचिव, रोजगार सहायक, वन अधिकार समितियों के अध्यक्ष और सचिव को एमपी वनमित्र पोर्टल का प्रशिक्षण दिया जाएगा। मास्टर ट्रेनर्स राहुल तिवारी, आशुतोष अग्निहोत्री, संजय साहू और हरचरण सेन द्वारा प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा।   जिला संयोजक आजाक ने संबंधित अधिकारियों को अपने अधीनस्थ प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले कर्मचारियों को प्रशिक्षण में अनिवार्य रूप से शामिल होने के निर्देश दिये हैं। प्रशिक्षण के दौरान अनुविभाग के अंतर्गत जिन ग्रामों के दावों को निरस्त किया गया है, उन ग्रामों से संबंधित ग्राम वन अधिकार समिति, उपखण्ड स्तर समिति, जिला स्तरीय वन अधिकार समिति और सचिव ग्राम पंचायत, ग्राम रोजगार सहायक, अध्यक्ष ग्राम वन अधिकार समिति और अध्यक्ष/सचिव जिला स्तरीय वन अधिकार समिति के सदस्यों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। सुबह 9 बजे से दोपहर 1 बजे तक ग्राम पंचायत सचिव, रोजगार सहायक, एफआईसी अध्यक्ष और सचिव का संयुक्त रूप से प्रशिक्षण कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में होगा, जबकि दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक ग्राम पंचायत सचिव और रोजगार सहायकों को पोर्टल की प्रक्रिया से अवगत कराने के लिए हैण्ड्सऑन प्रशिक्षण ई-दक्ष केन्द्र मेें होगा।   इन तिथियों में होगा प्रशिक्षण   छतरपुर विकासखण्ड के लिए प्रशिक्षण की तिथि 10 से 13 फरवरी, राजनगर के लिए 14 फरवरी और 17 से 19 फरवरी, नौगांव के लिए 20 फरवरी और 24 एवं 25 फरवरी, लवकुशनगर के लिए 26 से 28 फरवरी, गौरिहार के लिए 29 फरवरी और 2 एवं 3 मार्च, बिजावर के लिए 4 से 6 मार्च, बड़ामलहरा के लिए 7 मार्च और 11 से 13 मार्च तथा बक्स्वाहा विकासखण्ड के प्रशिक्षण के लिए 18 और 19 मार्च की तिथि निर्धारित की गई है।  

Dakhal News

Dakhal News 8 February 2020


bhopal,  book BhopalNama , discussed today,Swami Vivekananda Library

भोपाल। मध्य प्रदेश भारत का हृदय स्थल है, इसलिए इसका नाम मध्यप्रदेश पड़ा। स्‍वभाविक है मध्‍यप्रदेश की राज‍नीति, कला और संस्‍कृति संपूर्ण भारत को प्रभावित करती है। यहां मध्यप्रदेश में संस्कृति और कला की विविधता व्यापक रूप में विद्यमान है। चम्बल, निमाड़, महाकौशल और विंध्य क्षेत्र में संस्कृति और कला की विविधता व्यापक रूप से देखने को मिलती है। यही कारण है कि मध्‍यप्रदेश की संस्‍कृति या राजनीतिक तौर पर विषय का निर्धारण कर जितनी भी पुस्‍तकें बाजार में अब तक आई हैं, उनकी मांग व्‍यापक स्‍तर पर लगातार बनी रही है। इसे और गंभीरता से समझने के लिए आज यानी कि शुक्रवार 07 फरवरी शाम 05 बजे, भोपाल की स्वामी विवेकानंद लाइब्रेरी में लेखक वर्तुल सिंह की पुस्‍तक 'भोपालनामा' पर चर्चा का आयोजन किया गया है।    इस संदर्भ में उल्‍लेखित है कि पुस्‍तक की खासीयत के तौर पर हम विचार करें तो 'भोपालनामा' में आपको भोपाल की विविधता और सुन्‍दरता के विलक्षण दर्शन एक ही स्‍थान पर हो सकेंगे और जो आपने अब तक भोपाल के बारे में नहीं जान पाया होगा, उसे भी आप बहुत करीब से जान पाएंगे । पुस्तक चर्चा में रेरा के अध्यक्ष टीनो डी सा मुख्य रूप से शामिल होंगे।यहां सभी के लिए प्रवेश निशुल्क है।    उधर, मध्‍यप्रदेश की राजधानी भोपाल में स्‍थ‍ित प्रदेश के जनजातीय संग्रहालय में ''राजा भतृहरि नाट्य'' का मंचन शाम 6:30 बजे से रखा गया है। यहां भी प्रवेश पूरी तरह से  निशुल्क है। इस मंचित हो रहे नाटक की खास बात यह है कि इसे माच शैली में लोकनाट्य के अंतर्गत प्रस्‍तुत किया जा रहा है। जिनकी नाट्य कला में रुचि है या जिन्‍हें नाटक देखना अच्‍छा लगता है, वे इसे देखने आज अवश्‍य जाएं।   

Dakhal News

Dakhal News 7 February 2020


bhopal, three-day Bhopal Rang Mahotsava, Shaheed Bhavan

भोपाल। शहीद भवन में आज से 14वां भोपाल रंग महोत्सव का आयोजित किया जा रहा है। तीन दिवसीय इस समारोह में पिछले साथ की तरह ही इस वर्ष भी मंचित होने वाले सभी नाटक हास्य-व्यंग्य पर केंद्रित होंगे। समारोह का आयोजन नव नृत्य नाट्य संस्था की ओर से किया जा रहा है। समारोह में सभी नाटक शाम 7 बजे शुरू होंगे।   इस संबंध में अधिकारिक तौर पर नव नृत्य नाट्य संस्था भोपाल की ओर से बताया गया कि यह आयोजन स्व. प्रभात गांगुली और पद्मश्री गुलबर्द्धन की स्मृति में भारत सरकार संस्कृति मंत्रालय नई दिल्ली के सहयोग से आयोजित किया जा रहा है। समारोह 7 से 9 फरवरी तक तक शाम सात बजे से आरंभ होगा। जिसमें कि प्रतिदिन एक हास्‍य नाटक का मंचन होगा।    साथ में बताया गया कि इस तीन दिवसीय राष्ट्रीय हास्य नाट्य समारोह के प्रथम दिवस 07 फरवरी को  नाटक भोला का मंचन होगा जिसे कि मृदुला भारद्वाज और त्रिकर्षि ने निर्देशित किया है।  08 फरवरी के दिन मैं भी मां बन गया, नाटक खेला जाएगा जिसे सुनील राज ने अपना निर्देशन दिया है। वहीं, इस राष्‍ट्रीय समारोह के अंतिम दिवस 09 फरवरी पर नाटक नाड़ी परीक्षा का मंचन होगा जिसे कि अजीत चौधरी द्वारा निर्देशित किया गया है।    यहां उल्‍लेखनीय है कि आयोजन का आनन्‍द लेने के लिए सभी आम लोगों के लिए शहीद भवन सभागार में नुशुल्‍क प्रवेश रखा गया है। इस मौके पर वरिष्ठ सम्मान से प्रशांत खिलवड़कर, रंग साधिका सम्मान से सरोज शर्मा और युवा सम्मान से तनवीर अहमद को सम्‍मानित भी किया जाएगा ।

Dakhal News

Dakhal News 7 February 2020


bhopal, Rain activities , pick up again, eastern part of MP

भोपाल। मध्य प्रदेश में मौसम के बदलते मिजाज और ठंड के असर के बीच पूर्वी हिस्से में बारिश की गतिविधियां फिर से तेज़ होने की संभावना बन रही हैै। मौसम विज्ञान केंद्र से मिली जानकारी के अनुसार एक सिस्टम दक्षिणी छत्तीसगढ़ तक बनेगी। इसी सिस्टम के चलते पूर्वी मध्य प्रदेश के कई हिस्सों में एक बार फिर से बारिश हो सकती है। इन क्षेत्रों में कुछ स्थानों पर ओलावृष्टि और गरज के साथ मध्यम वर्षा भी हो सकती है। वहीं, तेज हवाएं चलने की भी संभावना है।    मौसम विज्ञानियों के अनुमान के अनुसार जबलपुर एवं शहडोल संभागों के जिलों सहित मंडला, जबलपुर, दमोह सहित पूर्वी मध्य प्रदेश में अच्छी बारिश होने की उम्मीद है। मौसम केंद्र के अनुसार जम्मू और कश्मीर एवं आसपास के क्षेत्रों पर स्थित एक चक्रवाती संचलन के रूप में पश्चिमी विक्षोभ पूर्वोत्तर की ओर दूर चला गया है। औसत समुद्र से 5.8 किमी ऊपर अपनी धुरी के साथ मध्य और ऊपरी क्षोभ मण्डल में एक द्रोणिका के रूप में कमजोर पश्चिमी विक्षोभ अब लगभग 71ए पूर्वी देशांतर से लेकर 30ए अक्षांश तक चलायमान है।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने जानकारी देते हुए बताया कि 11 फरवरी से पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में एक ताजा कमजोर पश्चिमी विक्षोभ का असर होने की संभावना है। एक चक्रवाती परिसंचरण मध्य महाराष्ट्र और आसपास के क्षेत्रों पर औसत समुद्र तल से 0.9 किमी ऊपर स्थित है। दक्षिण आंतरिक कर्नाटक से पूर्वी विदर्भ तक औसत समुद्र तल से 0.9 किमी ऊपर पूर्वी हवाओं (ईस्टरली) में द्रोणिका अब अब दक्षिण आंतरिक कर्नाटक से उत्तर आंतरिक कर्नाटक से होती हुई चक्रवाती परिसंचरण के केंद्र तक चलायमान है।   पूर्वी मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बीते कुछ दिनों से रुक-रुक कर बारिश की गतिविधियां देखने को मिलती रही है। हालांकि पिछले 24 घंटों के दौरान बारिश में कुछ कमी आई क्योंकि कॉन्फ्लुएंस जोन पूर्वी भारत की ओर बढ़ गया है। मध्य प्रदेश में रुक-रुक कर बारिश 8 फरवरी तक जारी रहेगी। इसके बाद 9 फरवरी से बारिश की गतिविधियां ओडिशा और पश्चिम बंगाल की तरफ बढ़ जाएंगी और मध्य भारत के राज्यों में मौसम साफ हो जाएगा। मौसम साफ होने के साथ ही इन भागों में दिन के तापमान में फिर से वृद्धि देखने को मिलेगी।   फिलहाल 8 फरवरी तक बादल छाने और बारिश होने के चलते पूर्वी मध्य प्रदेश ज़्यादातर शहरों में दिन का तापमान सामान्य से तीन से चार डिग्री कम रहेगा। दूसरी ओर इसी दौरान न्यूनतम तापमान सामान्य से 2-3 डिग्री सेल्सियस अधिक रहेगा। पूर्वी मध्य प्रदेश के एक-दो स्थानों पर छिटपुट हल्की से मध्यम बारिश होने की उम्मीद है। अगले 24 घंटों के लिए पश्चिमी में न्यूनतम तापमान में कोई महत्वपूर्ण बदलाव नहीं होने की उम्मीद है और इसके बाद 2-3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट की संभावना है।  

Dakhal News

Dakhal News 7 February 2020


chattarpur, Grand dance ceremony ,Khajuraho ,20 to 26 February

छतरपुर। राज्य शासन द्वारा विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल खजुराहो में इस वर्ष 20 से 26 फरवरी तक भव्य नृत्य समारोह आयोजित किया जाएगा। भारतीय शास्त्रीय नृत्य शैलियों पर केन्द्रित इस शीर्षस्थ समारोह में प्रतिदिन शाम 7 बजे से भारतीय शास्त्रीय नृत्य शैलियों के श्रेष्ठ कलासाधक अपनी कला का प्रदर्शन करेंगे। समारोह में खजुराहो के पश्चिम मंदिर समूह के पास स्थित परिसर में  20 फरवरी को उमा शर्मा दिल्ली कथक, जतिन गोस्वामी गोलाघाट और असम सत्रिया मीरा दास एवं साथी भुबनेश्वर ओडिसी नृत्य प्रस्तुत करेंगे। दूसरे दिन 21 फरवरी को पूजिता कृष्णन हैदराबाद विलासिनी, कृष्ण मोहन मिश्रा नई दिल्ली कथक, लता सिंह मुंशी एवं साथी भोपाल भरतनाट्यम की प्रस्तुति देंगे।   तीसरे दिन 22 फरवरी को शोबना चन्द्रकुमार पिल्लई चेन्नई भरतनाट्यम, सुपर्वा मिश्रा अहमदाबाद ओडिसी, आनन्दा शंकर जयंत एवं साथी हैदराबाद भरतनाट्यम का प्रदर्शन करेंगे। चौथे दिन 23 फरवरी को वाय आशा कुमारी नई दिल्ली ओडिसी, क्षितिजा बर्वे गोवा भरतनाट्यम, रागिनी मक्खर एवं साथी इन्दौर कथक प्रस्तुत करेंगी। पाँचवे दिन 24 फरवरी को एन. श्रीकान्त एवं अश्वथी श्रीकान्त कोजीकोट केरल भरतनाट्यम, नायर सिस्टर्स बैंगलोर मोहिनीअट्टम, नर्तकी नटराज चेन्नई भरतनाट्यम प्रस्तुत करेंगी। खजुराहो नृत्य समारोह में छठवें दिन 25 फरवरी को भद्रा सिन्हा और गायत्री वर्मा नई दिल्ली भरतनाट्यम, ऋचा जोशी-दीपक गंगानी नई दिल्ली कथक और मोहिका सक्सेना भोपाल भरतनाट्यम की प्रस्तुति देंगे। समारोह में अंतिम दिन 26 फरवरी को श्रीविद्या हैदराबाद कुचिपुड़ी, इनाक्षी सिन्हा-पवित्र भट्ट मुम्बई ओडिसी$भरतनाट्यम, वासु सिनम एवं साथी इम्फाल मणिपुरी, अमिता खरे एवं साथी भोपाल कथक की प्रस्तुति करेंगे।

Dakhal News

Dakhal News 5 February 2020


indore, Continuous reduction, power cases , CM helpline

इंदौर। मालवा और निमाड़ में बिजली सेवाओं एवं उपभोक्ताओं की समस्याओं के समाधान के प्रति मध्य प्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी (मप्रपक्षेविविकं) सजगता के साथ कार्य कर रही है। इसी से सीएम हेल्प लाइन 181 पर दर्ज होने वाले प्रकरणों में भी सतत कमी आ रही है।   मप्रपक्षेविविकं इंदौर के मुख्य महाप्रबंधक संतोष टैगोर से मिली जानकारी के मुताबिक प्रबंध निदेशक विकास नरवाल के निर्देशानुसार उपभोक्ता सेवाओं को लेकर मालवा और निमाड़ अंचल के सभी 15 जिलों में गंभीरता से कार्य किया जा रहा है। इस कारण शिकायतों एवं समस्य़ाओं में कमी आ रही है। बीते दिन 04 फरवरी तक की स्थिति में पंद्रह जिलों पर सीएम हेल्प लाइन में मात्र 1158 शिकायतें दर्ज हैंं। इसमें इंदौर जिले की 208, खंडवा 138 मंदसौर 119, देवास 110, रतलाम 103, उज्जैन की 101 शिकायतें है। कंपनी क्षेत्र में सबसे कम शिकायतें आलीराजपुर 2, बुरहानपुर 19, बड़वानी 21, झाबुआ 22 हैंं।    टैगोर ने बताया कि सीएम हेल्प लाइन पर दर्ज शिकायतों के निराकरण के लिए कार्यपालक निदेशक इंदौर, मुख्य अभियंता उज्जैन के साथ ही सभी 15 जिलों के इंजीनियरों की ओर से प्रतिदिन मानिटरिंग की जा रही है, ताकि सभी स्तरों की समस्य़ाओं का समाधान तेजी से हो सके।   चार माह में सीएम हेल्प लाइन प्रकरण 4 फरवरी  2020       1158 4 जनवरी 2020        1548 4 दिसंबर 2019        2249 4 नवंबर  2019        2603

Dakhal News

Dakhal News 5 February 2020


narsihpur, Forest department, silently expecting, teak timber trade

नरसिंहुपर। वन विभाग के कर्मचारियों की लापरवाही के मामले अधिकांशत: सामने आते ही रहते है। वन विभाग के कर्मचारियों और अधिकारियों की लापरवाही उनकी कार्यप्रणाली को संदेहात्मक बनाती है। जिसके चलते क्षेत्र में वनों की कटाई पर रोक नहींं लगा पाती है। दरअसल इसी लापरवाही के कारण ही वनों की कटाई पर अंकुश नहीं लग पाता है और विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों को बदनामी का दंश झेलना पड़ता है ।   लगातार काटे जा रहे हरे- भरे वृक्ष  जिले में आये दिन हरे भरे वृक्षों को काटा जा रहा है। प्राय: देखा गया है कि वन विभाग अपनी की टीम अपनी अधिकांश कार्रवाई में केवल ठूंठ बनाकर ही इतिश्री कर लेता है और वृक्ष की कटाई निरंतर जारी है। इसी क्रम में राजमार्ग क्षेत्र में वन की कटाई का मामला कुछ दिन पूर्व ही सामने आया था। जिसके बाद अब एक और नया मामला सामने आया है। जिसमें कि वृक्षों को काटकर सिल्ली बना कर वन रक्षक द्वारा अनुचित लाभ कमाने के उद्देश्य से वन माफियाओं के साथ बेचा जा रहा है।   पूरा मामला इस प्रकार है  शिकायतकर्ता अधिवक्ता रेखा पटेल द्वारा शिकायत में बताया गया है कि सहायक वन परिक्षेत्र मुंगवानी की जटलापुर में पदस्थ वन रक्षक मुकेश चढ़ार द्वारा अनुचित लाभ कमाने के लिये हरे भरे वृक्षों को काटकर सिल्लियां बना कर वन माफियाओं को बेचा जा रहा है। जबकि शेष बचे हुये तने को जला दिया जाता है। शिकायतकर्ता द्वारा शिकायत के साथ दी गई छायाचित्रों में काटे गये वृक्ष के ठूंठ एवं कटा हुआ वृक्ष व जलाये गये वृक्षों के छायाचित्र शामिल हैंं ।   शिकायतकर्ता की माने तो क्षेत्र में वन माफिया बहुत अधिक सक्रिय हैंं। वृक्षों की अवैध कटाई में विभाग की ओर से तैनात किया गया वन रक्षक भी उनके साथ मिलकर अनुचित लाभ कमाने के लिये वृक्षों की कटाई कराने में लगा हुआ है। शिकायकर्ता की माने तो इसके पूर्व अनेकों वृक्ष काट कर बेचे जा चुके हैंं और इस अवैध कार्य में वन रक्षक भी शमिल पाए गए हैंं ।   इनका कहना है अधिवक्ता रेखा पटेल द्वारा शिकायत की गई है कि वन रक्षक द्वारा वन माफियाओंं  के साथ मिलकर वृक्षों की कटाई की जा रही है। शिकायत प्राप्त होते ही जांच के आदेश दे दिये गये हैंं और मामले की वास्तविकता जांच के उपरांत ही स्पष्ट हो पायेगी। यदि वन रक्षक दोषी पाया गया तो नियम अनुरूप कार्रवाई की जावेगी ।   एम आर बद्येल, वन मण्डल अधिकारी नरसिंहपुर

Dakhal News

Dakhal News 5 February 2020


bhopal, Country needs ,creative thinking, disciplined young generation, Kamal Nath

भोपाल। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मंगलवार को अपने निवासी पर गणतंत्र दिवस के अवसर पर दिल्ली में हुई परेड़ में शामिल हुए प्रतिभागी मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के एनसीसी के छात्र-छात्राओं के भव्य समारोह में सम्मानित किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि आज देश को रचनात्मक सोच और अनुशासित युवा पीढ़ी की आवश्यकता है, जो सेवा से जुड़े और पूरे देश को एकसूत्र में पिरोए। कार्यक्रम में प्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी भी मौजूद रहे। सीएम कमनलाथ ने कहा कि एनसीसी एक ऐसा माध्यम है, जिसके जरिए हम देश के बेहतर भविष्य के लिए युवा शक्ति की ऊर्जा का उपयोग सही दिशा और दृष्टि के साथ कर सकते हैं। उन्होंने एनसीसी के छात्र-छात्राओं के सम्मान समारोह में कहा कि मुझे आज इस कार्यक्रम में शामिल होकर अपने छात्र जीवन की याद आ गई, जब मैं भी एनसीसी का कैडेट था। मैं उस समय दून स्कूल में पढ़ता था और वहाँ से कैम्प के लिए नागपुर के पास कामठी जाता था। अनुशासन, राष्ट्र के प्रति प्रेम, राष्ट्र के हितों की सुरक्षा और दुश्मनों से राष्ट्र को सुरक्षित रखने का पाठ मैंने वहीं से सीखा।उन्होंने कहा कि आज मेरे जीवन में जो अनुशासन और राष्ट्र के प्रति कुछ करगुजरने की तमन्ना है, उसमें एनसीसी द्वारा दी गई शिक्षा का महत्वपूर्ण स्थान है। एनसीसी का लक्ष्य है कि हमारी युवा पीढ़ी सेवा से जुड़े और उसमें राष्ट्रभक्ति की भावना मजबूत हो। देश की सुरक्षा के साथ ही हमारा जनजीवन अनुशासित हो, यह शिक्षा हमें अपने स्कूली जीवन में एनसीसी के माध्यम से मिलती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज सबसे बड़ी आवश्यकता इस बात की है कि हमारी युवा पीढ़ी देश की उस विशेषता को पहचाने, जिसके कारण पूरी दुनिया में हम महान हैं। हमारे देश में विभिन्न जातियां, धर्म, भाषा और संस्कृति को जब विश्व एक झण्डे के नीचे एकजुटता के साथ खड़ा हुआ देखता है, तो उसे आश्चर्य होता है।सीएम कमनलाथ ने कहा कि हमारी संस्कृति दिलों को जोड़ती है, संबंध बनाती है, रिश्तों को मजबूत करती है। हमारे सामाजिक मूल्य से मिले संस्कार दूसरों को सम्मान देना सीखाते हैं और एक-दूसरे के प्रति आदर की भावना रखते हैं। उन्होंने एनसीसी में शामिल छात्र-छात्राओं से कहा कि वे अपने देश की बहुलतावादी महान संस्कृति को मजबूत और अक्षुण्ण बनाए रखने के लिए संकल्पित हों।मुख्यमंत्री ने इस मौके पर एरोमॉडलिंग, साफ-सफाई, शूटिंग आदि प्रतियोगिताओं में स्वर्ण, सिल्वर और कांस्य पदक जीतने वाले छात्र-छात्राओं तथा नई दिल्ली की गणतंत्र दिवस परेड में गॉड ऑफ ऑनर और राजपथ परेड में भाग लेने वाले मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ के एनसीसी के छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया। मुख्यमंत्री को एनसीसी नेवल कैडेट्स द्वारा बनाई गई शिप, स्मृति चिन्ह के रूप में भेंट की गई। मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ एनसीसी के अतिरिक्त महानिदेशक मेजर जनरल संजय शर्मा द्वारा एनसीसी निदेशालय की गतिविधियों और उपलब्धियों की जानकारी दी गई।

Dakhal News

Dakhal News 4 February 2020


bhopal, Corona virus, under investigation,three medical students

भोपाल। चीन के वुहान शहर से लौटे मध्य प्रदेश के तीनों छात्रों की मेडिकल रिपोर्ट निगेटिव आई है। जांच रिपोर्ट में तीनों के शरीर में कोरोना वायरस नहीं निकला है। कोरोना वायरस के संदेह में तीनों की मेडिकल जांच की गई थी। रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने भी चैन की सांस ली है।    खरगोन के एमबीबीएस के छात्र शुभम गुप्ता और अब्दुल मतीन की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। वही ग्वालियर के भी एक छात्र की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। गौरतलब है कि चीन के जेहान शहर में रहकर मेडिकल की पढ़ाई कर रहे ग्वालियर के दर्पण कॉलोनी निवासी एक छात्र 14 जनवरी को ग्वालियर अपने घर आया था। पिछले गुरुवार को वो सर्दी, जुकाम, गले में दर्द की शिकायत लेकर जिला अस्पताल पहुंचा था। जयारोग्य अस्पताल में डॉक्टरों ने डिटेल लेकर उसे जांच कराने और आइसोलेशन वार्ड में भर्ती होने की सलाह दी गई लेकिन मरीज ने इंकार कर दिया। जिसके बात खोजबीन कर 7 घंटे बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम मरीज के घर पहुंची। उस समझा बुझाकर जयारोग्य अस्पताल लाया गया और उसके ब्लड सेम्पल लेकर जांच के लिए पुणे भेजे गए थे।    इसके अलावा चीन के वुहान से लौटे खरगौन के दो अन्य छात्रों शुभम व मतीन को भी भारत पहुुंचने के बाद गुडग़ांव के मानेसर कैंप में दोनों को रखा गया है। शिविर में ब्लड-यूरीन व लार के सैंपल लिए गए थे। वही दोनों छात्रों को अलग-अलग स्थानों पर रखा गया था। स्वास्थ्य परीक्षण में 4 जांच की गई, जिसमें दोनों की रिपोर्ट नेगेटीव आई है। रिपोर्ट में दोनों कोरोना का संक्रमण नहीं मिला है।    स्वास्थ्य मंत्री ने की अपील मध्य प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने आज कोरोना वायरस को लेकर लोगों का सजग रहने की अपील की है। उन्होंने कहा कि ये एक चुनौती है, लेकिन डरने की आवश्यकता नहीं। मंत्री ने आगे कहा कि वायरस से बचाव के लिए युद्ध स्तर पर तैयारी की गई है। सभी अस्पतालों में पुख्ता इंतजाम कर दिए गए हैं। इसके साथ ही आप लोग भी सजग रहे।

Dakhal News

Dakhal News 4 February 2020


bhopal, MP, Cold winds, hit people, showers may fall

भोपाल। राजधानी सहित प्रदेशभर में मौसम बदलना शुरू हो गया है। मंगलवार सुबह से राजधानी भोपाल के आसमान में हल्के बादल छाए हुए हैंं। इसके अलावा प्रदेश के कुछ अन्य हिस्सों में भी बादलों ने डेरा डाल लिया है। इसके चलते हरदा, होशंगाबाद जिले में कहीं-कहीं बारिश हुई है। राजधानी में सोमवार सुबह से शाम तक 12-15 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ठंडी हवाएं चलती रहीं। लिहजा सर्द हवाओं ने लोगों में ठिठुरन पैदा की। मौसम विभाग के अनुसार आने वाले कुछ दिनों तक अभी मौसम ऐसा ही बना रहेगा।    मौसम विज्ञानियों से मिली जानकारी के अनुसार आगामी 5 व 6 फरवरी को मध्य क्षेत्र में बारिश की गतिविधियों में कमी आएगी। इसके बाद एक बार फिर ठंड में बढ़ोतरी होगी। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा के मुताबिक पिछले 24 घंटे में सीधी जिले में शीतलहर चली। शेष जिलों के न्यूनतम तापमान में कोई विशेष परिवर्तन नहीं रहा। वहीं, रीवा में सामान्य से काफी कम तापमान दर्ज किया गया जबकि शहडोल, सागर, होशंगाबाद व ग्वालियर जिलों में सामान्य से कम तापमान रहा। मध्य प्रदेश में पिछले 24 घण्‍टे के दौरान सबसे कम तापमान रीवा, सीधी व दतिया में 5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है ।

Dakhal News

Dakhal News 4 February 2020


bhopal, Thunderstorms expected, eastern and central parts , Madhya Pradesh

भोपाल| पश्चिमी हिमालय के राज्यों में ठंडी हवाएँ चल रही हैं, जिसके कारण मध्य प्रदर्श में न्यूनतम और अधिकतम तापमान में 4 से 5 डिग्री सेल्सियस की गिरावट आई है। जबकि कुछ जगहों पर दिन और रात के तापमान में लगभग 3 से 7 डिग्री सेल्सियस की गिरावट देखी गई है| मौसम मॉडल के अनुसार अगले 24 से 48 घंटों में मध्य प्रदेश के पूर्वी व मध्य भागों में गरज के साथ बारिश होने की उम्मीद हैं|    आसमान साफ और हवा का रुख लगातार उत्तरी बना रहने से प्रदेश में जहां रात में तापमान में गिरावट का सिलसिला जारी है, वहीं दिन में भी सिहरन बरकरार है। इसी क्रम में शुक्रवार को प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 4 डिग्री बैतूल में दर्ज किया गया। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक रविवार तक ठंड के तेवर इसी तरह बने रहेंगे। सोमवार से एक बार फिर मौसम का मिजाज बिगड़ेगा और बादल छाने के साथ कहीं-कहीं बरसात भी होगी।   मौसम विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने मौसम के मिजाज की जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान में कोई वेदर सिस्टम सक्रिय नहीं है। इस वजह से मौसम साफ है। साथ ही हवा का रुख भी लगातार उत्तरी बना हुआ है। उत्तर भारत से आ रहीं सर्द हवाओं के कारण प्रदेश में रात के तापमान में गिरावट का सिलसिला जारी है। शुक्ला के मुताबिक 3 फरवरी को एक पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत में दाखिल होगा। साथ ही कर्नाटक से मध्य भारत तक एक ट्रफ बनने की भी संभावना है।   उधर उड़ीसा पर एक प्रति चक्रवात भी बनने के आसार हैं। इन सिस्टम के कारण हवाओं का रुख बदलेगा। साथ ही बंगाल की खाड़ी और अरब सागर से नमी आने का सिलसिला शुरू होगा। इससे 3 फरवरी से प्रदेश में बादल छाने लगेंगे। साथ ही कहीं-कहीं गरज-चमक के साथ बरसात की भी संभावना बनेगी। इस तरह की स्थिति 6 फरवरी तक बनी रह सकती है। जबलपुर, दमोह, उमरिया, सागर, कटनी और मांडला सहित सीधी और सतना में हो सकती है बेमौसम बारिश |  

Dakhal News

Dakhal News 1 February 2020


bhopal,  561 new posts, approved , one stop centers

भोपाल । राज्य शासन द्वारा महिला-बाल विकास विभाग के अन्तर्गत वन स्टॉप सेन्टर्स के लिए आउटसोर्स से 561 नये पद स्वीकृत किये गये हैं। प्रति सेन्टर तीन केस वर्कर (महिला), एक परामर्शदाता (महिला), एक आई.टी. वर्कर (महिला/पुरुष), तीन बहुउद्देश्यीय सहायक (2 महिला-पुरूष) के मान से पद स्वीकृत किए गए हैं। इन पदों पर निर्धारित दर (कलेक्टर दर पर) राज्य एवं जिला स्तर पर निविदा द्वारा चयनित एजेंसी के माध्यम से नियुक्ति की जाएगी।   उक्‍त जानकारी देते हुए जनसंपर्क अधिकारी बिन्दु सुनील ने शनिवार को बताया कि वन स्टाप सेन्टर में केस वर्कर के कुल 153 पद स्वीकृत किए गए हैं। इसके लिए महिला की अधिकतम आयु सीमा 45 वर्ष और मास्टर इन सोशल वर्क की उपाधि तथा महिलाओं से संबंधित कार्य में न्यूनतम एक वर्ष का अनुभव जरूरी है।   उन्‍होंने बताया कि परामर्शदाता (महिला) के 51 पद के लिए आवेदक की अधिकतम आयु सीमा 50 वर्ष निर्धारित की गई है। मनोविज्ञान, क्लीनिकल साइकोलॉजी में स्नातकोत्तर डिग्री, परामर्शदाता व साइकोथेरेपिस्ट के रूप में मेन्टल हेल्थ इंस्टीट्यूट, राज्य एवं जिला स्तरीय क्लीनिक में कार्य करने का न्यूनतम 3 वर्ष का अनुभव अनिवार्य होगा। कम्प्यूटर व आईटी में डिप्लोमा प्राप्त 35 वर्ष आयु के महिला अथवा पुरूष स्नातक को वन स्टॉप सेन्टर में आईटी वर्कर के रूप में नियुक्त किया जायेगा। प्रदेश में आईटी वर्कर के पद स्वीकृत किए गए हैं।   प्रदेश के सभी जिलों के वन स्टॉप सेन्टर के लिए 35 वर्ष आयु सीमा के 2 महिला एवं 1 पुरूष प्रति सेन्टर के मान से 153 बहुउद्देश्यीय सहायक के पद स्वीकृत किए गए हैं। इस पद के लिए हेल्पर अथवा भृत्य के रूप में कार्य करने का एक वर्ष का अनुभव अनिवार्य होगा। इसी प्रकार, सुरक्षा कर्मी (पुरूष) के 153 पद के लिए सुरक्षा कर्मी के रूप में एक वर्ष कार्य का अनुभव तथा आयु सीमा 35 वर्ष निर्धारित की गई है।

Dakhal News

Dakhal News 1 February 2020


satna, Pandit Nirala, poems are still relevant ,Prof. Gautam

सतना/चित्रकूट। महात्मा गांधी चित्रकूट ग्रामोदय विश्वविद्यालय चित्रकूट द्वारा शुक्रवार को निराला जयंती समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर नरेश चंद्र गौतम ने कहा कि पंडित निराला ने गद्य और पद्य में रचनाओं का सृजन कर शोषित और पीड़ितों के दर्द को उजागर किया है। पंडित निराला ने देश को आजादी दिलाने वाले संघर्ष में लगे लोगों को अपनी रचनाओं के माध्यम से पूरी निर्भीकता के साथ आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया। पंडित निराला की कविताएं आज भी प्रासंगिक हैं और समाज के लिए दिशा देने में सशक्त एवं सक्षम है। उन्होंने विद्यार्थियों का आवाहन किया कि उनकी रचनाओं और उनके व्यवहारिक जीवन से सीख लें।    इस दौरान ग्रामोदय विश्वविद्यालय के हिंदी विभाग की अध्यक्ष डॉ कुसुम सिंह ने पंडित सूर्यकांत त्रिपाठी निराला के जीवन तथा व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डाला। अध्यक्षता कला संकाय के अधिष्ठाता प्रोफेसर वाई.के सिंह ने की। हिंदी के विद्यावत प्राध्यापक द्वय डॉ ललित कुमार सिंह एवं डॉ राममूर्ति त्रिपाठी ने निराले अंदाज पर निराला की रचनाएं पढ़ी। तथा व्यवहारिक जीवन में उनकी उपयोगिता को रेखांकित किया। कार्यक्रम का शुभारंभ कुलपति द्वारा विद्या की देवी मां सरस्वती एवं सूर्यकांत त्रिपाठी निराला के चित्र पर दीप प्रज्वलन एवं पुष्प अर्पित कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया। इस अवसर पर डॉ अजय चौरे एवं विश्व विद्यालय के विद्यार्थीयों की उपस्थिति रही।   

Dakhal News

Dakhal News 31 January 2020


satna,  Miscreants shot businessman

सतना। सतना शहर के कोलगवां थाना क्षेत्र में बीती रात दुकान बंद कर अपने घर जा रहे एक व्यापारी को बाइक सवार बदमाशों ने गोली मार दी और रुपयों से भरा बैग लूटकर फरार हो गए। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायल व्यापारी को शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उनका उपचार जारी है। व्यापारी की हालत गंभीर बताई जा रही है। वहीं, पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।  कोलगवां थाना पुलिस के अनुसार, सतना शहर के प्रसिद्ध दाल व्यापारी 45 वर्षीय लालचंद्र लालवानी शहर के हिरानीपुरम में रहते हैं। गुरुवार देर रात वह सतना के मुख्य बाजार से अपनी दुकान बंद करने के बाद अपने स्कूटर से घर जा रहे थे। इसी दौरान बांधवगढ़ कॉलोनी के पास तीन बाइक सवार बदमाशों ने उनका रास्ता रोका और उन्हें गोली मारकर उनके पास रखा रुपयों से भरा बैग लूटकर फरार हो गए। पुलिस के अनुसार बैग में करीब 70 हजार रुपये नगद और अन्य जरूरी दस्तावेज रखे हुए थे। गोली व्यापारी के जबड़े में जाकर धंस गयी है। उनका उपचार जारी है। चिकित्सकों द्वारा उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है। पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर बदमाशों की तलाश शुरू कर दी है, लेकिन अभी तक उनका कोई सुराग हाथ नहीं लग पाया है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गौतम सोलंकी ने बताया कि घटना के समय आसपास के लोगों ने तीन बदमाशों के बाइक पर सवार होकर भागते देखा था। बदमाशों की संख्या तीन थी। उनकी तलाश में पुलिस जुटी हुई है। जगह-जगह दबिश दी जा रही है। वहीं, शहर के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जा रहे हैं। आरोपितों को जल्द पकड़ लिया जाएगा।

Dakhal News

Dakhal News 31 January 2020


ujjain, Big mishap averted, Somnath-Jabalpur train ,caught fire, Khacheroud station

उज्जैन/खाचरौद। रतलाम रेल मंडल से 28 किमी दूर दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पर स्थित खाचरौद रेलवे स्टेशन पर गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी रात 2:15 बजे को बड़ा हादसा होने से टल गया। सोमनाथ से जबलपुर की ओर जाने वाली सुपरफास्ट ट्रेन 11463 राजकोट अपने निर्धारित समय से 8 मिनट विलम्ब से रात 2:15 बजे खाचरौद स्टेशन पहुंची थी। यहां दो मिनट के स्टापेज के बाद ट्रेन रवाना हो ही रही थी, तभी ट्रेन में डियूटी कर रहे आरपीएफ के जवानों की नजर ट्रेन के एसी कोच बी-1 के चक्के पर पड़ी। यहां से हॉट एक्सेल होने के कारण पहिए से चिंगारी व धुंआ निकलने लगा। पुलिस जवानों ने धुंआ निकता देखा तो उनने इसकी सूचना रेलवे स्टेशन मास्टर हो दी।   स्टेशन मास्टर ने तुरंत रेल चालक को सूचना देकर ट्रेन को रोकते हुए सिंगल निरस्त किए। बाद में रतलाम मंडल के अधिकारियों से चर्चा कर कोच को ट्रेन से अलग किया और ट्रेन को जबलपुर के लिए रवाना किया। इस दौरान लगभग ढाई घंटे तक ट्रेन खाचरौद स्टेशन पर खड़ी रही। ट्रेन को सुबह 4:47 बजे रवाना किया गया। ट्रेन के विलम्ब होने से हजारों यात्रियों को परेशान होना पड़ा। विशेषकर काटे गए कोच के यात्रियों परेशानी हुई। उक्त कोच के यात्रियों को अन्य कोच में बैठाया गया, जिसको लेकर कुछ यात्रियों ने विरोध भी किया और विवाद की स्थिति भी बनी। कोच को खाचरौद स्टेशन के यार्ड में खड़ा किया गया है। गनीमत रही कि रेलवे पुलिस जवानों की नजर कोच के चक्के पर पड़ गई। यदि ट्रेन खाचरौद स्टेशन से रवाना होने के बाद आग लग जाती तो बड़ी घटना होनी की संभावना थी, क्योंकि रात में यात्री गहरी नींद में सो रहे थे।   इनका कहना    खाचरौद स्टेशन मास्टर गनीराम मीणा का कहना है कि यहां रात को 11464 सोमनाथ-जबलपुर सुपरफास्ट ट्रेन के एक्सल जाम हो गए थे। इस कारण ट्रेन के कोच को खाचरौद स्टेशन पर खड़ा कर जबलपुर के लिए रवाना किया गया। 

Dakhal News

Dakhal News 31 January 2020


annuppur, Order of inconvenience ,made the order, one officer, two collector

अनूपपुर। आयुक्त आदिवासी विकास विभाग में पदों की होड़ को लेकर मचे दो दिनी विवाद का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि जिला शिक्षा कार्यालय विभाग में एक ही पद के दो अधिकारी सामने आ गए। आश्चर्य की बात है कि दोनों अधिकारी जिला शिक्षा अधिकारी यूके बघेल और कलेक्टर के द्वारा प्रभारी रूप में नियुक्त डीएस राव ने अपने कक्ष के बाहर अपने नाम के साथ जिला शिक्षा अधिकारी पदभार को प्रदर्शित कर दिया। जिसके बाद अब विभागीय कर्मचारियों में अधिकारियों के फरमान की तामीली को लेकर असमंजस्य की स्थिति बन गई है। कर्मचारियों का कहना है कि अगर ऐसी परिस्थितियां बनी रही तो विभागीय कार्य को सम्पादित करना मुश्किल हो जाएगा। वहीं दोनों अधिकारियों में पदभार की जिम्मेदारियों को लेकर विवाद की स्थिति बनती जा रही है।    उल्लेखनीय है कि 12 जनवरी को अमरकंटक नर्मदा जयंती महोत्सव सहित अन्य विषयों के लिए आयोजित बैठक में जिला प्रभारी मंत्री प्रदीप जायसवाल सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी शामिल हुए थे, जिसमें जिला शिक्षा कार्यालय अधिकारी बैठक में शामिल नहीं हुए, जिसे लेकर जिला प्रभारी मंत्री ने नाराजगी जताई थी। वहीं जनसुनवाई सहित जिला स्तरीय प्रशासकीय बैठक में जिला शिक्षा की अनुपस्थिति लगातार बनी रहने पर कलेक्टर ने गम्भीरता दिखाते हुए जिला शिक्षा अधिकारी यूके बघेल की जगह पूर्व सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग व कन्या स्कूल प्राचार्य जैतहरी डीएस राव को जिला शिक्षा विभाग की जिम्मेदारी सौंपी थी। जिसमें कलेक्टर के आदेश के बाद पूर्व सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग डीएस राव ने जिला शिक्षा कार्यालय विभाग का पदभार ग्रहण करते हुए कार्यालय का संचालन आरम्भ कर दिया। वहीं जिला शिक्षा अधिकारी यूके बघेल ने भी अपने कक्ष में ही ड्यूटी के दौरान समय व्यतीत कर रहे हैं।    पूर्व जिला शिक्षा अधिकारी यूके बघेल का कहना है कि जिला प्रशासन द्वारा अबतक इस सम्बंध में कोई भी जानकारी या किन कारणों में उन्हें पद से अलग किया है नहीं दी है। जबकि पूर्व प्रभारी सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग अधिकारी डीएस राव के सम्बंध में जिम्मेदारी सम्बंधित बातों को उल्लेखित कर उन्हें विभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई है। जबकि जिला शिक्षा कार्यालय में सहायक अधिकारी पूर्व से मौजूद हैं, जिसे कानूनन मेरी असमर्थता में विभाग की जिम्मेदारी उन्हें सौंपी जानी चाहिए थी। वहीं डीएस राव का कहना है कि जिला प्रशासन ने उन्हें विभाग की जिम्मेदारी सौंपी है, जिसका मैं पालन कर रहा हूं।विदित हो कि 20 दिसम्बर को कलेक्टर कार्यालय सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग में एक ही पद को लेकर तीन अधिकारी आमने सामने आ गए थे। जिसमें पूर्व सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग पीएन चतुर्वेदी, प्रभारी सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग अनूपपुर डीएस राव तथा मप्र शासन द्वारा स्थानांतरित होकर बड़वानी से अनूपपुर आए नवीन सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग अधिकारी विवेक पांडेय रहे। वहीं 18 दिसम्बर को पूर्व सहायक आयुक्त पीएन चतुर्वेदी ने हाईकोर्ट जबलपुर से अपने स्थानांतरण पर स्थगन आदेश लाते हुए सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग में अपनी उपस्थिति दर्ज करा दी और अपने विभागीय कार्यालय पर अपना ताला लगा दिया। जिसकी सूचना पर एसडीएम अनूपपुर कमलेश पुरी ने कलेक्टर के निर्देश में कार्यालय के मुख्य प्रवेश द्वार को ही सील कर दिया और बिना प्रशासनिक अनुमति कार्यालय में प्रवेश पर प्रतिबंध के आदेश जारी कर दिए। इसके बाद आगामी दो दिनों तक विभाग में पदस्थापना को लेकर नाटकीय स्थिति बनी रही।    22 दिसम्बर को कलेक्टर ने बड़वानी से आए सहायक आयुक्त विवेक पांडेय को विभाग की जिम्मेदारी सौंपते हुए प्रभारी सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग डीएस राव को मूल पद शासकीय कन्या स्कूल जैतहरी प्राचार्य पर वापस भेज दिया। वहीं स्थानांतरण पर स्थगन आदेश लाने पर पूर्व सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग को इसी कार्यालय में आगामी आदेश तक कार्य करने की अनुमति प्रदान कर दी।अपर कलेक्टर बीडी सिंह ने बताया कि विभागीय की प्रशासकीय जिम्मेदारी डीएस राव तथा वित्तीय अधिकार अपर कलेक्टर के नाम आदेशित है। यूके बघेल के सम्बंध में जानकारी लेकर मामला देखता हूं।

Dakhal News

Dakhal News 31 January 2020


dhaar, Thousands of devotees, reached the procession, Bhojshala , Vasant Panchami

धार। वसंत पंचमी के अवसर पर गुरुवार सुबह से ही हजारों की संख्या में हिंदू समाज के लोग दर्शन करने के लिए भोजशाला पहुंच रहे हैं। धार स्थित भोजशाला में मुख्य आयोजन की शुरुआत गुरुवार को सुबह हवन-पूजन से हुई। इसके साथ स्थानीय लालबाग से मां सरस्वती बाग्देवी की शोभायात्रा निकाली गई, जो कि शहर के प्रमुख मार्गों से भ्रमण करते हुए भोजशाला पहुंची, जहां भव्य महाआरती हुई। बता दें कि धार की भोजशाला में वसंत पंचमी के अवसर पर भव्य कार्यक्रम आयोजित किया जाता है। यहां कई बार इस कार्यक्रम को लेकर दंगे भी हो चुके हैं। इसी को देखते हुए इस पूरे आयोजन को लेकर प्रशासन भी अलर्ट है। शहर के प्रमुख मार्गों पर पुलिसबल तैनात किया गया है, साथ ही भोजशाला में भी बड़ी संख्या में पुलिसबल के साथ प्रशासनिक अधिकारी भी मौजूद हैं। गुरुवार को ही भोजन प्रसादी का आयोजन भी हिंदू जागरण मंच व भोज उत्सव समिति के द्वारा किया गया है। शहर में लगातार पुलिस मोबाईल वाहन व बाइक पुलिस लगातार भ्रमण कर रही है, वहीं सीसीटीवी कैमरे से भी निगरानी रखी जा रही है। 

Dakhal News

Dakhal News 30 January 2020


bhopal,  Narmada Jayanti, celebrated,February 1,  Narmada Festival  Amarkantak

भोपाल। मध्यप्रदेश की जीवनदायिनी माँ नर्मदा की जयंती शनिवार, एक फरवरी को प्रदेशभर में धूमधाम से मनाई जाएगी। इस अवसर पर माँ नर्मदा के उद्गम स्थल अमरकंटक में तीन दिवसीय नर्मदा महोत्सव का आयोजन किया जाएगा, जिसका शुभारंभ शुक्रवार, 31 जनवरी को मुख्यमंत्री कमलनाथ करेंगे। जिला प्रशासन द्वारा आयोजित यह नर्मदा महोत्सव दो फरवरी तक चलेगा, जिसमें विभिन्न सांस्कृतिक और गीत-संगीत के कार्यक्रम होंगे।  अनूपपुर कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने गुरुवार को इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि अमरकंटक में तीन दिवसीय नर्मदा महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है, जिसका भव्य शुभारंभ शुक्रवार, 31 जनवरी को दोपहर 12 बजे होगा। उद्घाटन कार्यक्रम में मुख्यमंत्री कमलनाथ मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हैं, जबकि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, मंत्री प्रदीप जायसवाल और ओंकार सिंह मरकाम भी उद्घाटन समारोह में शामिल रहेंगे। दो फरवरी तक चलने वाले इस महोत्सव में बड़ी संख्या में श्रद्धालु आएंगे। नर्मदा जयंती के अवसर पर यहां भव्य संगीत समारोह होगा, जिसमें प्रसिद्ध गायिका मैथिली ठाकुर और 2 फरवरी को गायक कैलाश खेर प्रस्तुति देंगे। नर्मदा महोत्सव की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। अमरकंटक में महोत्सव के लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये हैं।मंडलेश्वर में भी होगा दो दिवसीय नर्मदा महोत्सव, कैलाश खेर देंगे प्रस्तुतिवहीं, खरगौन जिले के पर्यटन स्थल मंडलेश्वर में भी आगामी 01 फरवरी को नर्मदा जयंती के अवसर पर दो दिवसीय नर्मदा महोत्सव का आयोजन किया जाएगा। प्रदेश की संस्कृति मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ एक फरवरी को इस महोत्सव का शुभारंभ करेंगी। कार्यक्रम में प्रसिद्ध गायक कैलाश खैर अपने गीतों की प्रस्तुति देंगे। खरगौन कलेक्टर गोपालचंद्र डाड ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि आगामी 01 फरवरी को नर्मदा जयंती है। इस दिन जिले के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल मंडलेश्वर में दो दिवसीय नर्मदा महोत्सव आयोजित होगा। कार्यक्रम का शुभारंभ प्रदेश की संस्कृति मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ द्वारा किया जाएगा। नर्मदा महोत्सव में प्रख्यात गायक कैलाश खैर द्वारा शानदार प्रस्तुति दी जाएगी। इसके अलावा स्थानीय कलाकारों द्वारा मनमोहन प्रस्तुतियां देंगे। 

Dakhal News

Dakhal News 30 January 2020


ujjain, Spring festival, Mahakal temple

उज्जैन। विश्व प्रसिद्ध ज्योतिर्लिंग भगवान महाकाल की नगरी उज्जैन में गुरुवार का वसंत पंचमी का उत्सव धूमधाम से मनाया गया। इस दौरान भगवान महाकाल को पुजारियों द्वारा वासंती पुष्प के साथ हर्बल गुलाल अर्पित किया। इसके साथ ही महाकाल मंदिर में वसंत (फाग) उत्सव की शुरुआत हुई। यह उत्सव शहर के सभी मंदिरों में 40 दिन तक चलेगा। यह जानकारी महाकालेश्वर मंदिर के शासकीय पुजारी प्रदीप गुरु ने मीडिया को दी। उन्होंने बताया कि राजाधिराज महाकाल के आंगन में गुरुवार को सबसे पहले वसंत उत्सव मनाया गया। तडक़े चार बजे भगवान महाकाल को केसर मिश्रित जल से स्नान कराने के बाद आकर्षक श्रृंगार किया गया। इसके बाद मंदिर के पुजारियों ने वासंती और सरसों के पुष्प के साथ भगवान महाकाल को गुलाल अर्पित किया। भस्मार्ती में भगवान का विशेष पूजन-अर्चन हुआ और इसके बाद महाकाल के आंगन में वसंत उत्सव की शुरुआत हुई। इसके अलावा शहर के सिंधिया देव स्थान ट्रस्ट के प्रसिद्ध गोपाल मंदिर में भी वसंत उत्सव मनाया गया। यहां गुरुवार को सुबह विशेष पूजा-अर्चना के बाद भगवान गोपालजी को महाराष्ट्रीयन केसरिया भात का भोग लगाया गया। गोपाल मंदिर के पुजारी पं. अर्पित जोशी ने बताया कि गोपाल मंदिर में सिंधिया स्टेट की परंपरा के अनुसार वसंत पंचमी मनाई जा रही है। गोपालजी को सुबह केसर के जल से स्नान कराने के बाद केसर चंदन से श्रृंगार कर केसरिया वस्त्र धारण कराए गए। इसके बाद भगवान को सरसों के फूल अर्पित कर विशेष पूजन हुआ और केसरिया भात का भोग लगाया गया।

Dakhal News

Dakhal News 30 January 2020


chattarpur,  Do not raise, slogan of Mahatma Gandhi, try to learn from them

छतरपुर। मध्यप्रदेश हिंदी साहित्य सम्मेलन की छतरपुर इकाई द्वारा स्थानीय शीलिंग होम इंग्लिश स्कूल में महात्मा गांधी की जयंती के 150 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में एक व्याख्यानमाला का आयोजन किया गया। आयोजन में मुख्य वक्ता के रूप में नेशनल बुक ट्रस्ट के संपादक पंकज चतुर्वेदी मौजूद रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता शीलिंग होम के एमडी संजीव नगरिया ने की।   मुख्य वक्ता के तौर छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए पंकज चतुर्वेदी ने महात्मा गांधी के जीवन के विभिन्न रूपों को प्रस्तुत किया जो छात्रों के हिसाब से काफी रोचक रहा। उन्होंने बताया कि महात्मा गांधी न सिर्फ स्वावलंबी थे बल्कि वे वस्त्रावलम्बी भी थे। उन्होंने चरखे का प्रयोग कर स्वयं के लिए खुद वस्त्र बनाये और पहने। वे एक किसान, सफाईकर्मी, प्राकृतिक चिकित्सक और रसोइए भी थे। उन्होंने बच्चों को गांधी जी का साहित्य पढऩे को प्रेरित करते हुए कहा कि गांधी की जय का नारा मत लगाइए बल्कि गांधी जी से कुछ सीखिए। इस मौके पर छात्र-छात्राओं ने सवालों के माध्यम से जिज्ञासाएं प्रकट की जिनका पंकज चतुर्वेदी ने समाधान किया। कार्यक्रम में मध्यप्रदेश हिंदी साहित्य सम्मेलन की अध्यक्ष अमिता अरजरिया ने अपने उद्बोधन में पढ़ाई में गहरे उतरने की बात कही तो वहीं वरिष्ठ शिक्षिका संध्या श्रीवास्तव ने अपने आसपास स्वच्छता रखने को प्रेरित किया। अशासकीय स्कूल संघ के अध्यक्ष प्रमोद मिश्रा ने ऐसे आयोजनों को छात्रहित में बताते हुए संहित्य सम्मेलन और विद्यालय के प्रयास की सराहना की। कार्यक्रम का संचालन इप्टा के महासचिव व पत्रकार शिवेन्द्र शुक्ला ने किया। कार्यक्रम के अंत मे संस्था के सचिव रविशंकर पाठक ने आभार व्यक्त किया।

Dakhal News

Dakhal News 29 January 2020


bhopal, Weather in Madhya Pradesh, temperature from Thursday

भोपाल। मध्य प्रदेश में मौसम सुहाना बना हुआ है। राजधानी भोपाल में बुधवार सुबह से आसमान में बादलों के बीच सूरज की लुकाछिपी लगी हुई है। मौसम विभाग के अनुसार राजस्थान से झारखंड तक बने ट्रफ (द्रोणिका लाइन) के असर से वातावरण में आ रही नमी के कारण बादल बरकरार हैं। इससे दिन में जहां मौसम सुहाना बना हुआ है, वहीं रात में फिलहाल ठंड से राहत मिल रही है।   मौसम विभाग मुताबिक इस सिस्टम के कारण रीवा, शहडोल, ग्वालियर, चंबल संभाग में कहीं-कहीं हल्की बारिश की संभावना है। बुधवार से बादल छंटने के आसार हैं। इससे गुरुवार से रात के तापमान में गिरावट आने लगेगी।   पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत से आगे बढ़ रहा है   मौसम विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ मौसम विज्ञानी उदय सरवटे ने जानकारी देते हुए बताया कि एक पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत से आगे बढ़ रहा है। इसके अतिरिक्त उत्तर-पूर्वी राजस्थान से दक्षिण उप्र से होकर एक ट्रफ झारखंड तक जा रहा है। जिसके प्रभाव से वर्तमान में हवा का रुख दक्षिण-पश्चिमी बना हुआ है।   नमी आने से मध्य प्रदेश के कई स्थानों पर बादल बने हुए हैं   इससे वातावरण में नमी आने से प्रदेश के कई स्थानों पर बादल बने हुए हैं। इन सिस्टम के कारण प्रदेश के पूर्वी और उत्तरी भाग में कहीं-कहीं हल्की बौछारें पड़ सकती हैं। मौसम विज्ञानी सरवटे के मुताबिक राजस्थान से बने सिस्टम के बुधवार को समाप्त होने की संभावना है। इससे बादल छंटने लगेंगे। गुरुवार से हवा का रुख फिर उत्तरी होने के आसार हैं। इससे वातावरण में फिर ठंड में कुछ इजाफा होगा।

Dakhal News

Dakhal News 29 January 2020


bhopal, MP, cloud cover, possibility of rain, next 24 hours

भोपाल। राजधानी भोपाल में सोमवार सुबह से आसमान में बादल छाए हुए है। मौसम केंद्र से मिली जानकारी के अनुसार 27 एवं 28 जनवरी के दौरान दिन के तापमान में आंशिक गिरावट संभव है। वहीं पिछले 24 घंटे के दौरान मध्य प्रदेश का मौसम शुष्क रहा एवं तापमान में विशेष परिवर्तन नहीं हुआ।    मौसम विज्ञानियों से मिली जानकारी के अनुसार छत्तीसगढ़ से सटे पूर्वी मध्य प्रदेश के जिलों में सोमवार को हल्की वर्षा हो सकती है। इसके बाद के 24 घंटों के दौरान सम्पूर्ण मध्य प्रदेश में कहीं-कहीं हल्की वर्षा हो सकती है। इसके बाद आगामी 30 जनवरी तक मौसम शुष्क बने रहने की संभावना है। मौसम केंद्र के अनुसार 27 एवं 28 जनवरी के दौरान दिन के तापमान में आंशिक गिरावट हो सकती है।   मौसम विज्ञानियों का कहना है कि पश्चिमी विक्षोभ उत्तरी पाकिस्तान और इससे सटे जम्मू और कश्मीर पर एक चक्रवाती परिसंचरण के रूप में बना हुआ है और समुद्र तल से 2.1 और 3.1 किमी ऊपर दिखाई दे रहा है। एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ मध्य और ऊपरी ट्रोपोस्फ़ेरिक स्तरों में अपने औसत समुद्र तल से 5.8 की किलोमीटर अपने अक्ष के साथ एक द्रोणिका के रूप में 62एपूर्वी देशान्तर एवं उत्तर की ओर 30एउत्तरी अक्षांश तक देखा जा रहा है। वहीं औसत समुद्र तल से 3.1 किमी ऊपर एक चक्रवाती संचरण बांग्लादेश और आसपास के क्षेत्रों में स्थित है। 

Dakhal News

Dakhal News 27 January 2020


anupur, Convicts convicted, 76 cases, crimes against women

अनूपपुर। जिले के न्यायालयों अनूपपुर,कोतमा एवं राजेन्द्रग्राम सहित वर्ष 2019 में न्यायालय द्वारा किए गए निराकृत प्रकरणों की वार्षिक आंकड़ो की जानकारी शुक्रवार को जिला मीडिया प्रभारी राकेश कुमार पांडेय ने देते हुए बताया कि हत्या के 14 मामलो में 5 मामलो में सजा एवं 10 मामलो का निराकृत, हत्या का प्रयास के10 मामलो में 1 में सजा एवं दो का निराकृत, साधारण चोट के 244 मामलो में 32 मामलो में सजा एवं 198 मामले निराकृत, गंभी चोट के 47 मामलो में 2 मेंसजा एवं 16 निराकृत, शीलभंग 354 के 144 मामलो में 8 में सजा एवं 74 निराकृत, अपहरण के 42 मामलो में 2 में सजा एवं 9 निराकृत, दुष्कर्म के 148 मामलो में 11 में सजा एं 48मामलो का निराकृत किया गय है। जिला अभियोजन अधिकारी रामनरेश गिरि ने बताया कि जिले में महिला संबंधी कुल 1123 प्रकरण वर्ष 2019 में लंबित थे, जिसमें से 575 प्रकरणों का निराकरण न्यायालय द्वारा किया गया है। कुल निराकृत प्रकरणों के 76 मामलों में अभियोजन ने आरोपियों को सजा दिलाने में सफलता प्राप्त की है और 324 मामलों में आरोपीगणों ने सजा के भय से फरियादी से राजीनामा करने का आवेदन न्यायालय में लगाया, जिसके आधार पर 324 मामलों में राजीनामा के आधार पर न्यायालय ने लंबित प्रकरणों का निराकरण किया है। मीडिया प्रभारी ने बताया कि राज्य शासन महिलाओं के विरूद्ध किए गए अपराधों के प्रति अति संवेदनशील है, राज्य शासन ने महिलाओं के विरूद्ध बढ़ते अपराध की रोकथाम हेतु और उनके विरूद्ध लंबित न्यायालयों में आपराधिक प्रकरणों का शीघ्र निपटारा किए जाने हेतु जिलों में पॉक्सो अधिनियम के तहत लंबित प्रकरणों के लिए विशेष न्यायालय का गठन करने का आदेश हाल में ही विधि एवं विधायी विभाग द्वारा पारित किया गया है, जिसमें पैरवी हेतु रैग्युलर कैडर के अभियोजन अधिकारियों को विशेष लोक अभियोजक घोषित किया गया है। अनूपपुर जिले में सहायक जिला अभियोजन अधिकारी हेमन्त अग्रवाल को पॉक्सो अधिनियम के तहत दर्ज प्रकरणों में पैरवी करने हेतु विशेष लोक अभियोजक घोषित किया गया है, जिन्होंने अपना पदभार ग्रहण कर लिया है। जिला एवं अपर सत्र न्यायाधीश भूपेन्द्र नकवाल के न्यायालय को पॉक्सो अधिनियम के तहत विशेष न्यायालय घोषित किया गया है जिसमें सम्पूर्ण जिले में दर्ज पॉक्सो अधिनियम के प्रकरणों की सुनवाई होगी। 

Dakhal News

Dakhal News 24 January 2020


shivpuri, Students, Police Cadet Scheme, first time, parade of 26 January

शिवपुरी। शिवपुरी में 26 जनवरी को होने वाली परेड में इस बार खास बात होगी। पुलिस, एसएएफ पुलिस, होमगार्ड के अलावा इस बार परेड में सरकारी विद्यालय के छात्र पहली बार शामिल होंगे। यह वह छात्र हैं जो पुलिस द्वारा चलाई जा रही स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना के तहत चिंहित हैं।   स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना के यह चिंहित छात्र परेड में शामिल होकर मुख्य अतिथि को सलामी देंगे। पहली बार स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना के यह छात्र परेड में शामिल हो रहे हैं। परेड में शामिल होने वाली टुकड़ी में 25 छात्र रहेंगे इसमें एक परेड कमांडर रहेगा। परेड में शामिल होने वाले सभी छात्रों को ट्रैक शूट, टीशर्ट, कैप भी मुहैया कराई गई है। पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल ने बताया कि इन छात्र एवं छात्राओं में नैतिक मूल्यों का समावेश कर इन्हें जिम्मेदार, अनुशासित, संस्कारिक और चरित्रवान नागरिक बनाना है। उनका कहना है कि इस कार्यक्रम से युवाओं में सामाजिक प्रतिबद्धता की भावना जागेगी और वह अनुशासित होंगे।    पुलिस की छवि सुधारने का अभियान-    शिवपुरी में इस समय केंद्रीय गृह मंत्रालय और मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना चलाई जा रही है। इस योजना में सरकारी विद्यालयों के छात्रों को पुलिसिंग कार्रवाई के अलावा इनमें नैतिक मूल्यों का समावेश कर उन्हें जिम्मेदार, अनुशासित, संस्कारिक और चरित्रवान नागरिक बनाना मुख्य उद्देश्य है।    सरकारी स्कूलों के बच्चे किए गए हैं चिंहित-    स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना में सरकारी विद्यालयों के बच्चों को लिया गया है। पांच स्कूलों के 100 बच्चों को इस योजना में चिंहित किया गया है। सूबेदार गायत्री इटोरिया ने बताया कि 26 जनवरी की परेड में शामिल होने को लेकर बच्चे बहुत उत्साहित हैं। एक बालिका मुस्कान ने बताया कि वह इस परेड में शामिल होकर गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। वहीं इस कार्यक्रम को संचालित करने वाले एनजीओ डोनेट आ स्माईल फाउंडेशन के प्रबल अग्रवाल का कहना है कि समाज में पुलिस की सकारात्मक छवि को बताने भी इस कार्यक्रम का एक उद्देश्य है। 

Dakhal News

Dakhal News 24 January 2020


narsihpur, Villagers forced , pass through marsh , no bridge

तेंदूखेड़ा। मध्यप्रदेश के चांवरपाठा विकासखंड के अंतर्गत आने वाले ग्राम मेंहदा खैरी बिलगुंवा मार्ग पर खैरी और डोभी के बीच बरांझ नदी पर रपटा पुल न होने की स्थिति में यहां के ग्रामीणों को दलदल से होकर गुजरना पड़ रहा है। इस मार्ग से प्रतिदिन सैकड़ों यात्री खैरी मेंहदा समेत विभिन्न ग्रामों के लोग आवागमन करते हैं। डोभी की तरफ से तेंदूखेड़ा आकर फिर एन.एच. 12 होकर बिलगुंवा गुटोरी सिमरिया राजमार्ग पहुंचने के लिए काफी चक्कर लगाना पड़ता है। लेकिन डोभी होकर बरकुंडा खैरी होते हुए यह मार्ग जहां चक्कर और दूरी को कम करता वहीं समय की बचत भी करता है। क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों ने पूर्व में इस मार्ग को यहां से पक्का तो बनवा दिया है लेकिन नदी पर रिपटा पुल न होने के कारण ग्रामीणों को काफी गंभीर परिस्थितियों से जूझना पड़ रहा है। वर्तमान में हालात यह हैं कि इस नदी पर दलदल स्थिति बनी हुई है जिससे लोग पैदल भी नहीं निकल पा रहे हैं।   डोभी मार्ग बंद होने पर यही मार्ग आता है काम उल्लेखनीय है कि तेंदूखेड़ा से डोभी होकर बरमान जाने वाले सड़क मार्ग का निर्माण कार्य चलने तथा डोभी और इमझिरा के समीप बरांझ नदियों पर बने कम ऊंचाई वाले पुलों के ऊपर से नदियों पर बाढ़ का पानी होने के कारण यह मार्ग पूर्णत: बंद हो जाता है। ऐसे समय में यही मार्ग काम आता है। इसी मार्ग से होकर वाहन आते जाते हैं। लेकिन रपटा पुल न होने से उक्त ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को भी परेशानी हुआ करती है। हाल ही में बरांझ नदी में पानी अधिक होने की स्थिति में दलदल स्थिति बनी हुई है।    बढ़ाई जाए पुलों की ऊंचाई तेंदूखेड़ा से डोभी होकर बरमान जाने वाले सड़क मार्ग पर इमझिरा के समीप बरांझ नदी एवं डोभी के समीप पाणाझिर नदी पर बने पुलों की ऊंचाई काफी कम है। इस कारण से आये दिन थोड़ी सी बारिश में पुलों के ऊपर पानी हो जाता है और सड़क मार्ग बंद हो जाया करते हैं। यात्री वाहन घूमकर आते जाते हैं। चूंकि नई सड़क तो बन रही है लेकिन पुलों की ऊंचाई कम होने की स्थिति में मार्ग बरसात के दिनों में बंद ही बना रहेगा। ऐसी स्थिति में पुलों की ऊंचाई बढ़ाये जाने की बहुत आवश्यकता है।

Dakhal News

Dakhal News 23 January 2020


bhopal,Two more cold spells, likely by 10 February

भोपाल। मध्य प्रदेश के बादल छंटने से एक बार फिर कड़कड़ाती ठंड का एहसास होने लगा है। राजधानी भोपाल में गुरुवार सुबह से आसमान साफ है और धूप निकली हुई। धूप निकलने से लोगों को राहत है लेकिन हवा चलने के कारण ठंड का एहसास हो रहा है। बुधवार को प्रदेश में कई स्थानों पर दिन के तापमान में गिरावट दर्ज की गई। उधर, बुधवार को प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 7 डिग्री दतिया और ग्वालियर में दर्ज किया गया। उमरिया में 12, दमोह में 9, सागर में 0.2 मिमी बरसात हुई।    छत्तीसगढ़ पर बने प्रति चक्रवात के समाप्त होने के साथ ही एक बार फिर हवा का रुख उत्तरी हो गया है। उधर उत्तर भारत में बर्फबारी शुरू हो गई है। इस वजह से वहां से आने वाली सर्द हवाओं से प्रदेश में एक बार फिर ठंड का असर बढ़ गया है। मौसम विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने इस संबंध में बताया कि हाल ही में पूर्वी मप्र और उससे लगे छत्तीसगढ़ पर एक प्रति चक्रवात बना हुआ था। उसके प्रभाव से हवाओं का रुख बदल गया था और बादल छा गए थे। मौसम विभाग के मुताबिक छत्तीसगढ़ में बना सिस्टम बुधवार को समाप्त हो गया है। इससे बादल छंटने लगे हैं। साथ ही हवाओं का रुख फिर उत्तरी हो गया है। गुरुवार से 10 फरवरी तक ठंड के दो दौर और आने की संभावना है। इस दौरान रात के तापमान में 4 डिग्री तक की गिरावट होने का अनुमान है। गुरुवार से ही एक दौर शुरू हो सकता है। यह 27 फरवरी तक जारी रहेगा। इसके बाद 2-3 फरवरी से दूसरा दौर शुरू होने के आसार हैं।

Dakhal News

Dakhal News 23 January 2020


narsihpur, Date and time, set for reservation, three-tier panchayat elections

नरसिंहपुर। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव 2019- 20 के लिये ग्राम पंचायत के पंचों/ सरपंचों, जनपद पंचायत के निर्वाचन क्षेत्र एवं अध्यक्ष तथा जिला पंचायत के निर्वाचन क्षेत्रों में सभी वर्ग के आरक्षण(अनुसूचित जाति/ अनुसूचित जनजाति/ अन्य पिछड़ा वर्ग एवं महिला) के लिए  दिनांक एवं समय का कलेक्टर दीपक सक्सेना ने निर्धारण कर दिया है।   इस संबंध में जारी सूचना के अनुसार सरपंच एवं पंच पद के लिये जनपद पंचायत गोटेगांव, जनपद पंचायत नरसिंहपुर, जनपद पंचायत करेली, जनपद पंचायत चांवरपाठा, जनपद पंचायत सांईखेड़ा और जनपद पंचायत चीचली की समस्त ग्राम पंचायतों के वार्ड/ सरपंच पद के आरक्षण की कार्यवाही के लिये संबंधित अनुविभागीय अधिकारी(राजस्व) के कार्यालय में सोमवार 27 जनवरी को अपरान्ह 3 बजे से किया जायेगा। इसी तरह जनपद पंचायत के निर्वाचन क्षेत्र तथा जनपद पंचायत अध्यक्ष पद के आरक्षण के लिये निर्वाचन क्षेत्र जनपद पंचायत गोटेगांव, नरसिंहपुर, करेली, चांवरपाठा, सांईखेड़ा व चीचली के लिए गुरुवार 30 जनवरी को प्रात: 11 बजे से कार्यालय कलेक्ट्रेट नरसिंहपुर के सभाकक्ष क्रमांक 94 में किया जायेगा। अध्यक्ष पद के लिये जनपद पंचायत गोटेगांव, नरसिंहपुर, करेली, चांवरपाठा, सांईखेड़ा व चीचली के लिए गुरुवार 30 जनवरी को दोपहर एक बजे से कार्यालय कलेक्ट्रेट नरसिंहपुर के सभाकक्ष में किया जायेगा। जिला पंचायत नरसिंहपुर के 15 निर्वाचन क्षेत्र की कार्यवाही के लिए गुरूवार 30 जनवरी को प्रात: 11 बजे से कार्यालय कलेक्ट्रेट नरसिंहपुर के सभाकक्ष में किया जायेगा।

Dakhal News

Dakhal News 23 January 2020


chattarpur, Inter ball cricket tournament,leather ball

छतरपुर। लेदर बॉल क्रिकेट को बढ़ावा देकर खिलाडिय़ों को बड़ी स्पर्धाओं के लिए तैयार करने हेतु डिस्ट्रिक्ट छतरपुर क्रिकेट एसोसिएशन एक नई पहल करने जा रहा है । डीसीसीए के द्वारा आगामी 22 जनवरी से 30 जनवरी तक शहर के पेप्टेक टाउन स्थित खेल मैदान में एक इंटर स्कूल टूर्नामेंट का आयोजन किया जा रहा है ।   डीसीसीए के अध्यक्ष विनय चौरसिया एवं सचिव राजीव बिल्थरे ने संयुक्त रूप से बताया कि इस टूर्नामेंट में छतरपुर जिले के 11 शासकीय, अशासकीय विद्यालयों की क्रिकेट टीमें हिस्सा लेंगी। प्रतिदिन पेप्टेक टाउन में टूर्नामेंट के नॉकआउट मुकाबले खेले जाएंगे। टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ खिलाडिय़ों को डीसीसीए द्वारा डिस्ट्रिक्ट लेवल, डिवीजन लेवल टूर्नामेंट के लिए तैयारी करने का मौका मिल सकेगा। गौरतलब है कि डीसीसीए क्रिकेट की वह जिला इकाई है जो बीसीसीआई के अधीन काम करने वाली एमपीसीए से अधिकृत होती है। उन्होंने नगर के खेल प्रेमियों को भी टूर्नामेंट में आमंत्रित किया है।   यह टीमें लेंगे हिस्सा   इस टूर्नामेंट में केयर इंग्लिश स्कूल, उत्कृष्ट विद्यालय क्रमांक 1, महर्षि विद्या मंदिर, क्रिश्चियन स्कूल, डीसेंट स्कूल, डिलाईट स्कूल, ज्ञान भारती स्कूल लवकुशनगर, रॉयल इंग्लिश स्कूल, सन्मति विद्या मंदिर, सरस्वती शिशु मंदिर एवं शीलिंग पब्लिक स्कूल छतरपुर की टीमें हिस्सा लेंगी।  

Dakhal News

Dakhal News 20 January 2020


bhopal, Trembling winter, 3.7 degrees, Madhya Pradesh, minimum temperature, reached below ,10 degree

भोपाल। भोपाल में सोमवार सुबह से मौसम का मिजाज कुछ बदला हुआ है, धूप खिलने से लोगों को राहत मिली। मौसम विभाग के अनुसार, आज एक पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर भारत में  हिमालय से आ रही सर्द हवाओं के कारण राजधानी समेत मध्य प्रदेश के अधिकांश भागों के न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज हुई और ठंड के तेवर तीखे बने रहे। राजधानी भोपाल में चल रही शीतलहर का असर यातायात पर भीदेखा गया। आज सुबह यहां धूप खिली, लेकिन वातावरण में सर्द हवाएं सिहरन पैदा कर रही हैं। मौसम विभाग के अनुसार, रविवार को न्यूनतम तापमानसीहोर 3.7, बैतूल 5.2, भोपाल 6.4, दतिया 7.7, धार 5.7, गुना 8.2, ग्वालियर 6.8, इंदौर 8.8, खंडवा 8.4, खरगौन 6.8, पचमढ़ी 4.8, रायसेन 5.0, राजगढ़ 8.2, रतलाम 6.4, शाजापुर 7.2, उज्जैन 6.4, छिंदवाड़ा 9.6, दमोह 6.8, जबलपुर 7.6, खजुराहो 7.0, मंडला 8.0, नौगांव 7,0, रीवा 5.6, सागर 8.4, सतना 7.6, सीधी 7.9, सिवनी 8.0, टीकमगढ़ 6.4, उमरिया 5.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यहां 10 डिग्री रहा न्यूनतम तापमान: होशंगाबाद 10.4, नरसिंहपुर 10.0, श्योपुर 10.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।राजधानी भोपाल में सोमवार सुबह से मौसम का मिजाज कुछ बदला हुआ है। धूप खिलने से लोगों को राहत मिली है। लेकिन, ठंडी हवाएं सिहरन पैदा कर रही है। मौसम विभाग के अनुसार, आज एक पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर भारत में प्रवेश करने से हवाओं का रूख बदलेगा। वातावरण में नमी आने से आसमान में बादल छा जाएंगे। इससे रात के तापमान में बढोत्तरी होगी और लोगों को ठंड से कुछ राहत मिलेगी। 22 जनवरी को कई इलाकों हो सकती है बारिश मौसम विज्ञान केंद्र के मौसम विज्ञानी पीके साहा ने बताया कि हवा का रुख लगातार उत्तरी बना हुआ है। करीब 15 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से सर्द हवाओं के चलने के कारण प्रदेश में ठंड के तेवर तीखे बने हुए हैं। साहा के मुताबिक सोमवार को एक पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत में दाखिल होगा। उसके प्रभाव से हवाओं का रुख बदलेगा। वातावरण में नमी आने से बादल छाने लगेंगे। इससे रात के तापमान में इजाफा होने लगेगा और ठंड से राहत मिलेगी। 22 जनवरी को राजधानी सहित प्रदेश में कई स्थानों पर गरज-चमक के साथ बौछारें भी पड़ सकती है।    

Dakhal News

Dakhal News 20 January 2020


bhopal,Severe cold , Madhya Pradesh, hail will fall ,new spell ,January 21

भोपाल। मध्य प्रदेश में ठंड का कहर जारी है। प्रदेश भर में घने कोहरे के साथ ही कड़ाके की ठंड पड़ रही है। राजधानी भोपाल में रविवार दोपहर तक आसमान में बादल छाए रहे। सुबह के समय हल्की बारिश की बौछारे भी गिरी। बादल छाने से मौसम में ठंडक महसूर की गई। हालांकि दोपहर बाद आसमान साफ हो गया और धूप निकल आई लेकिन ठंड का असर बरकरार रहा। इसके अलावा मध्य प्रदेश के कई जिलों में मौसम शुष्क रहा। शुष्क मौसम के बीच सुबह के समय उत्तर-पश्चिमी मध्य प्रदेश में घना कोहरा देखने को मिला। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा के मुताबिक पूर्वी मध्य प्रदेश में एक-दो स्थानों पर गर्जना के साथ हल्की बारिश हो सकती है। अनुमान है कि सीधी, शहडोल और अनूपपुर जैसे स्थानों पर बारिश देखने को मिलेगी। यह स्थितियाँ अगले 24 घंटों तक रहेंगी उसके बाद मौसम बदल जाएगा और सभी जगहों पर शुष्क मौसम देखने को मिलेगा। हालांकि बारिश में यह ब्रेक 24 घंटों का ही है क्योंकि इसके बाद मध्य प्रदेश के मध्य भागों में 21 जनवरी को एक चक्रवाती सिस्टम विकसित होने की उम्मीद है। यह प्रणाली पूर्वी मध्य प्रदेश के कई हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश दे सकता है। बारिश की गतिविधियां इन भागों में 22 जनवरी तक बनी रह सकती हैं। बारिश के साथ एक-दो स्थानों पर ओलावृष्टि की भी संभावना है। सागर, दमोह, कटनी, जबलपुर, उमरिया, सतना, सीधी, शहडोल, अनूपपुर, नरसिंहपुर जैसे स्थानों पर बारिश और ओलावृष्टि का सबसे अधिक प्रभाव देखने को मिल सकता है। सर्दियों की यह बारिश मौसम साफ होने के बाद मध्य प्रदेश में सुबह के समय मध्यम से घने कोहरे का कारण भी बन सकती है।  

Dakhal News

Dakhal News 19 January 2020


bhopal,Cyclothon, celebrated, Saturday, Fit India Movement

भोपाल। मध्यप्रदेश में शनिवार, 18 जनवरी को फिट इंडिया मूवमेंट के तहत साइकिल दिवस (साईक्लोथोन) मनाया जायेगा। इसके अंतर्गत राज्य में ग्राम पंचायत स्तर पर भी ग्रामवासियों के सहयोग से 50 से 100 के समूह में न्यूनतम 4 से 5 किलोमीटर साइकिल चलाई जायेगी। इस साइकल चालन में स्त्री, पुरुष, बालक, बालिकाएं अपनी इच्छानुसार भाग ले सकेंगे। फिट इण्डिया के तहत आयोजित होने वाली इस साइकिल दिवस के लिये ग्रामवासियों को जागरूक कर उन्हें साईक्लोथोन में शामिल होने की अपील की जा रही है। जिला पंचायत सीईओ मनोज सरियाम ने बताया कि सभी जनपद पंचायतों के सीईओ, ग्राम पंचायतों के सचिवों, रोजगार सहायकों को पत्र भेजकर निर्देशित किया गया है कि फिट इण्डिया मूवमेंट के तहत वे भी अपने प्रभार के क्षेत्र में शनिवार, 18 जनवरी को साइकिल दिवस का आयोजन करें, क्योंकि साईक्लिंग ऊर्जावान एवं स्वस्थ्य बने रहने का एक उत्कृष्ट विकल्प है। साईक्लिंग स्वास्थ्य के लिये एक रुचिकर कसरत है तथा साईक्लिंग यदि समूह में की जाए तो और भी आनंदवर्धक हो जाती है।जिला पंचायत सीईओ ने बताया है कि इस आयोजन का समय ग्राम पंचायतें अपने सुविधानुसार निर्धारित कर सकती है। इस आयोजन में अधिक से अधिक महिला स्वयं सहायता समूह के सदस्यों व सखियों, पंचायत पदाधिकारियों, युवा ग्राम शक्ति समिति के सदस्यों और स्कूलों के विद्यार्थियों तथा ग्रामवासियों की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए उन्हें भी प्रोत्साहित किया जा रहा है, ताकि इस आयोजन में अधिक से अधिक लोग भाग लेकर आनंदवर्धक स्वास्थ्य लाभ ले सके। साईकिल दिवस पर प्रत्येक ग्राम पंचायत में ग्रामवासियों द्वारा रैली के रूप में सामूहिक रूप से साईकिल चलाई जाएगी। साईक्लिंग के सफल आयोजन के लिए शिक्षा विभाग, खेलकूद विभाग, राज्य आजीविका मिशन सहित संबंधित विभागों का भी सहभागिता रहेगी।  

Dakhal News

Dakhal News 17 January 2020


Indore, Corporation staff demolishes, four-storey illegal building

इंदौर। मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्देश पर चलाए जा रहे भू माफिया के खिलाफ अभियान के अंतर्गत इंदौर जिला प्रशासन और नगर निगम द्वारा लगातार कार्रवाई की जा रही है। इसी क्रम में शहर के न्याय नगर एक्सटेंशन में अवैध रूप से बने चार मंजिला अवैध भवन को नगर निगम के अमले ने शुक्रवार को जमींदोज कर दिया। इस भवन को विस्फोट लगातर धराशायी किया गया। इस दौरान भारी पुलिस बल मौजूद रहा। निगम के अपर आयुक्त संदीप सोनी ने बताया कि न्याय नगर में सरकारी जमीन पर अवैध रूप से कब्जा कर इस भवन का निर्माण किया गया था। भवन मालिक बाबूलाल गौर को पहले नोटिस देकर आवश्यक दस्तावेज तलब किये गये थे। उन्होंने जो दस्तावेज प्रस्तुत किये थे, उसके अनुसार भवन सरकारी जमीन पर बना हुआ था और उसके निर्माण के लिए भी अनुमति नहीं ली गई थी। इसीलिए निगम द्वारा इस चार मंजिला भवन को तोड़ा गया। विस्फोट विशेषज्ञ शरद सरवटे को निगम द्वारा बुलाकर भवन को विस्फोटक लगातर जमींदोज किया गया। वहीं, भवन मालिक बाबूलाल गौर ने निगम की कार्रवाई पर सवाल उठाये हैं। उन्होंने कहा कि यह जमीन उन्होंने चार साल पहले ही खरीदी थी और वे इसका टैक्स भी जमा कर रहे थे, इसके बावजूद निगम और जिला प्रशासन ने भवन को तोड़ दिया। 

Dakhal News

Dakhal News 17 January 2020


bhopal,  impact of South-Western cyclone, winter increase , Madhya Pradesh.

भोपाल । मध्य प्रदेश के दक्षिण-पश्चिमी क्षेत्र राजस्थान में बने चक्रवात से प्रदेश के लगातार रुक-रुक कर मौसम में परिवर्तन हो रहा है। इससे राजधानी भोपाल सहित शाजापुर, शिवपुरी, अशोकनगर, गुना, राजगढ़, होशंगाबाद, ग्‍वालियर, जबलपुर, सागर और खुजराहो में कभी कोहरा तो कभी दिन में तेज धूप निकल रही है। इसी के साथ कई स्‍थानों पर हल्की फुहारें भी पड़ रही हैं। रुक-रुक कर हो रही इस बारिश को कृषि वैज्ञानिकों ने फसल के लिए अच्‍छा माना है । मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि अभी प्रदेश में कुछ दिन के लिए सर्दी और बढ़ेगी।    प्रदेश के इन सभी जिलों में बुधवार से रुक-रुककर बारिश जारी है। इससे तापमान में गिरावट आई है और ठंड में इजाफा हुआ है। मौसम विभाग का कहना है कि इस सप्‍ताह में आगे भी हल्‍की बारिश की संभावना बनी हुई है। इन जिलों में चक्रवात के असर के चलते गुना में 35.2, राजगढ़ में 15, अशोकनगर में 8.75 और ग्वालियर में 6.3 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है ।   उधर, राजधानी में गुरुवार को दिनभर हल्‍की बूंदाबांदी, कोहरा और छाए रहे बादलों से शुक्रवार को निजात मिलना शुरू हुआ और सुबह होते ही मौसम खुला-खुला नजर आया । यहां इस माह के बीते 16 दिन में से 10 दिन सुबह के वक्त कोहरा रहा है लेकिन शुक्रवार को धूप पूरी तरह से खिली। हालांकि जिले में कई स्‍थानों पर बादल छाए हुए हैं। यहां भोपाल में सुबह का तापमान आज सुबह  9:30 बजे तक 21 डिग्री सेल्‍सियस से अधिक दर्ज किया गया है ।    मौसम में आ रहे इस परिवर्तन को लेकर कृषि वैज्ञानिक डॉ. मुकेश भार्गव ने बताया कि जिस तरह से मावठे की बारिश हो रही है, यह फसलों के लिए बहुत लाभदायक है। उन्‍होंने कहा कि चना, गेहूं, अलसी, मटर आदि फसलों के लिए यह वर्षा अच्‍छी है। इससे इन फसलों को पर्याप्त पानी एवं नमी मिलने से फसलें किसानों को अच्‍छा लाभ देकर जाएंगी। कृषि वैज्ञानिकों का कहना यह भी है कि प्रदेश के चंबल  क्षेत्र मुरैना, भिण्‍ड, एवं ग्‍वालियर में अधिकांश किसानों ने अपने खेतों में सरसों बोई है, ऐसे में यदि अधिक बारिश होती है तो इसके लिए नुकसान करेगी ।    मौसम विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ मौसम विशेषज्ञ उदय सरवटे प्रदेश के मौसम में हो रहे इस परिवर्तन को लेकर कहते हैं कि मध्‍य प्रदेश से सटे राज्‍य राजस्थान पर 1.5 किमी. की ऊंचाई पर अभी एक चक्रवात सक्रिय है। इसलिए पूरे वातावरण में नमी छाई हुई है। इसका सीधा असर राज्‍य के कई जिलों में देखने को मिल रहा है। इसके कारण से इन जिलों में बादल छाए हुए हैं और कुछ स्थानों पर बरसात भी हो रही है। नमी के कारण अधिकांश स्थानों पर सुबह के वक्त घना कोहरा भी छा रहा है। उन्‍होंने बताया है कि यह सिस्‍टम शुक्रवार को राजस्‍थान की तरफ ओर खिसका है, जिससे थोड़ी राहत है लेकिन फिर रविवार को पश्चिमी विक्षोभ के असर से एक बार फिर मौसम का मिजाज बिगड़ेगा। इससे कई स्थानों पर बरसात हो सकती है।   उल्‍लेखनीय है कि प्रदेश में हो रहे इस मौसमी परिवर्तन का असर  फ्लाइट्स और रेल सहित अन्‍य आवागमन के साधनों पर सीधे तौर पर पड़ रहा है। गुरुवार एवं शुक्रवार सुबह तक कोहरा होने के चलते कई ट्रेनें करीब दो से चार घंटे तक अपने गंतव्य पर पहुंची हैं।  फ्लाइट के रूट भी बदले गए। मौसम की वजह से भोपाल आने वाली कई फ्लाइट लेट रहीं। एआई 435 - दिल्ली-भोपाल 4.34 घंटे, 6ई 7121 - हैदराबाद-भोपाल 1.10 घंटे,  6ई 2035 - दिल्ली-भोपाल 3.33 घंटे, एआई 633 - मुंबई-भोपाल 4.23 घंटे और 6ई 5301 - मुंबई-भोपाल 2.58 घंटे विलम्‍ब से पहुंची हैं। यही हाल कई ट्रेनों का है।   

Dakhal News

Dakhal News 17 January 2020


murena, Hail falls, rain

मुरैना। मध्यप्रदेश के मुरैना जिले में बुधवार से ही मौसम का मिजाज बदला हुआ है। बुधवार को दिनभर आसमान में बादल छाने के बाद बीती रात रुक-रुककर रातभर बारिश होती रही और गुरुवार को सुबह भी यह सिलसिला जारी रहा। गुरुवार को सुबह करीब नौ बजे शहर में ओलावृष्टि भी हुई। बारिश से लोगों को सर्दी का अहसास तो हो रहा है, लेकिन आसमान में बादल छा जाने से न्यूनतम तापमान में इजाफा हुआ है।  मौसम विभाग के मुताबिक, बुधवार की रात से गुरुवार को सुबह तक रुक-रुक वारिश होने के बाद भी मुरैना जिले का न्यूनतम तापमान 3 डिग्री बढक़र 13.5 डिग्री पर पहुंच गया। फिलहाल आसमान में बादल छाये हुए हैं। गुरुवार को सुबह नौ बजे जिले में धीमी गति से पानी के साथ-साथ ओले भी गिरे। कुछ देर बाद हालांकि बारिश थम गई, लेकिन अभी भी आसमान पर घने बादल छाये हुये हैं। मौसम विभाग ने गुरुवार को देर रात तक ही मौसम के खराब रहने की संभावना बताई जा रही है, जबकि शुक्रवार को आसमान साफ होने पर सर्दी तेज होने की संभावना बताई जा रही है। बीते 24 घंटों में मुरैना जिले में 16 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है। इधर, कृषि वैज्ञानिकों द्वारा इस वर्षा को गेहूं और चने की फसल के लिये लाभकारी बताया गया है, लेकिन सरसों की फसल के लिये यह नुकसानदेह है।

Dakhal News

Dakhal News 16 January 2020


ijtema

  गुरुवार से आएंगी विदेशी जमातें    72वें आलमी तब्लीगी इज्तिमा के पहले दिन 22 नवंबर को करीब 300 निकाह होंगे। इज्तिमा का आगाज सुबह फजिर की नमाज के बाद मजहबी तकरीर से होगा। इज्तिमा में शिरकत का पैगाम देने स्थानीय जमातें शहर में घूमने लगी हैं, जबकि विदेशी जमातों के आने का सिलसिला गुरुवार से शुरू होगा। इज्तिमा का समापन 25 नवंबर को सामूहिक दुआ के साथ होगा। इसके बाद जमातों के लौटने का सिलसिला शुरू होगा। यहां चारों दिन होने वाली नमाजों के वक्त का भी एेलान कर दिया गया है। आयोजन स्थल को दो फूड जोन के अलावा दो बुक जोन भी बनाए गए हैं। यहां विभिन्न लेखकों की धार्मिक पुस्तकें मिलेंगी। निकाह के लिए रजिस्ट्रेशन चल रहे हैं। इज्तिमा स्थल का क्षेत्रफल करीब 350 एकड़ होने से यहां तीन सेक्टरों में स्पेशल काउंटर बनाए हैं। यहां भीड़ में गुम होने वाले व्यक्ति का अनाउसमेंट होगा तो किसी की कोई वस्तु गुमने की सूचना भी दर्ज करके प्रसारित की जाएगी। यह काउंटर बी, सी व एच सेक्टर में होंगे। डीआईजी इरशाद वली और एएसपी दिनेश कौशल ने इज्तिमा स्थल पहुंचकर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। शहर के विभिन्न इलाकों से आयोजन स्थल तक की ट्रैफिक व्यवस्था के संबंध में भी संबंधित अफसरों से चर्चा की। जमातियों के वाहनों को पार्क करने के लिए करीब 250 एकड़ जमीन में पार्किंग के इंतजाम किए जा रहे हैं। करीब 42 पार्किंग जोन में होने वाली इस व्यवस्था के दौरान छोटे-बड़े वाहनों को अलग-अलग स्थान पर खड़ा कराया जाएगा। यह काम बुधवार तक मुकम्मल हो जाएगा।   नमाज का नाम वक्त फजिर सुबह 6:15 बजे जौहर दोपहर 2:00 बजे असिर शाम 4:30 बजे मगरिब शाम 5:42 बजे ईशा बयान खत्म होने के बाद

Dakhal News

Dakhal News 19 November 2019


shivraj singh

  परिजनों से मिलने पहुंचे शिवराज, कहा- दो महीने में 11 मौत हुईं   रायसेन जिले के नूरगंज गांव में दूषित पानी पीने से 4 लोगों की मौत के बाद आज पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पीडित परिजनों से मिलने पहुंचे। उन्होंने इस मामले में जिला प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की। उन्होंने कहा कि नूरगंज में दो महीने में बीमारी से 11 मौतें हुई है। शिवराज के साथ स्थानीय विधायक सुरेंद्र पटवा भी नूरगंज पहुंचे थे। शिवराज ने जिला प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया। उन्होंने राज्य की कांग्रेस सरकार से इस मामले में कार्रवाई किए जाने की मांग करते हुए कहा कि अगर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गयी, तो भारतीय जनता पार्टी  इसको लेकर और तेज आवाज उठाएगी। पूर्व मुख्यमंत्री ने दावा करते हुए कहा कि नूरगंज में दो महीने में बीमारी से 11 मौतें हुई है। उन्होंने चेतावनी देकर कहा कि व्यवस्थाएं सुधरे, नहीं तो होगा आंदोलन होगा। उन्होंने कहा कि अभी भी 80 लोग बीमार हैं। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस सरकार पर संबल योजना से गरीबों के नाम काटे जाने के भी आरोप लगाये। गांव में पीड़ित परिवार से मिलने के बाद शिवराज सिंह ने प्रभारी मंत्री हर्ष यादव को फोन से बात की। उन्होंने प्रभारी मंत्री को बताया कि गांव की हालत बेहद खराब है। यहां पीने के पानी के लिए अतिरिक्त टैंकर उपलब्ध कराएं जाएं। 24 घंटे डॉक्टर की ड्यूटी गांव में लगाई जाई और लोगों की आर्थिक मदद की व्यवस्था की जाए। 

Dakhal News

Dakhal News 19 November 2019


lal ji tandan

गौ नस्ल सुधार का अभियान चले संरक्षण-संर्वधन की समग्र योजना बनाकर करें कार्य राज्यपाल  लाल जी टंडन ने कहा है कि गौ नस्ल सुधार का अभियान विश्वविद्यालय द्वारा चलाया जाए। विश्वविद्यालय केवल अनुदान पर आश्रित नहीं रहे, आय के स्त्रोत विकसित कर आत्म-निर्भर बनें। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय मिशन मोड में गौ-संरक्षण और संवर्धन की समग्र योजना पर कार्य करें। नस्ल सुधार, चारा और दूध उत्पादन में नई तकनीक के उपयोग का एकीकृत रूप से क्रियान्वयन करे। टंडन राजभवन में नाना जी देशमुख पशु चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय जबलपुर की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में राज्यपाल की पहल पर विश्वविद्यालय को पशुपालन विभाग द्वारा सौ-सौ गायों की 10 गौशालाएँ संचालित करने के लिए अनुदान उपलब्ध कराने का निर्णय हुआ। राज्यपाल  टंडन ने कहा कि गौ-वंश को बचाना वर्तमान में सबसे बड़ी चुनौती है। इस परिदृश्य को बदलने विश्विद्यालय गौ पालन के समग्र प्रोजेक्ट पर कार्य करें। उन्होंने कहा कि आधुनिक तकनीक का उपयोग निराश्रित गायों को विश्वविद्यालय में रखकर उनको सेरोगेटेड मदर की तरह उपयोग करने की पहल पर विचार करें। लक्ष्य बनाकर देशी नस्ल की उन्नत बछिए विश्विद्यालय द्वारा तैयार किये जाये। तैयार बछिए के विक्रय से विश्वविद्यालय की आर्थिक निर्भरता कम होगी। इसी तरह चारा उत्पादन का कार्य भी नवीन विधि से किया जाए। चारा रखने के ऐसे बैग मिल रहे हैं जिनमें एक से डेढ़ माह तक हरा चारा सुरक्षित रहता है। उत्पादित चारा जहाँ एक ओर विश्वविद्यालय के पशुओं की आहार आवश्यकताओं को पूरा करेगा, वहीं उसकी बिक्री से क्षेत्र में दूध के उत्पादन में भी वृद्धि और सुधार होगा। पशुपालन के लाभों से परिचित हो ग्रामीण पशुपालन के लिए प्रोत्साहित होंगे। लाल जी टंडन ने कहा कि विश्वविद्यालय मूल्यवर्धक गतिविधियों के प्रसार के प्रयासों पर विशेष बल दे। संसाधनों के विकास के कार्यों को प्राथमिकता दी जाए ताकि नई परियोजना सेल्फ सस्टेनेबल रहें। उन्होंने कहा कि इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन द्वारा बॉयो गैस प्लान्ट लगाने की योजना संचालित की गई है, जिसमें प्लांट लगाने के साथ कम्पनी उत्पादित गैस भी खरीद लेती है। प्लांट का अवशेष भी समृद्ध खाद होता है, जिसे तालाब में प्रवाहित कर मत्स्य उत्पादन में कई गुना वृद्धि की जा सकती है। उन्होंने अपेक्षा की कि विश्वविद्यालय इस तरह नई तकनीक के सफल प्रयोगों को दिखाकर किसानों तक पहुँचाने के प्रयास करें। उन्होंने कहा कि गायों की प्रजनन क्षमता में भी सुधार के प्रयास जरूरी हैं। नई विधियों से एक वर्ष में कई उन्नत नस्ल तैयार करने के उदाहरण मिल रहे हैं। इसका विस्तार कर देशी नस्ल को बेहतर बनाने के कार्य किये जायें। उन्होंने कहा कि बाजारवाद के चलते विदेशी कम्पनियाँ कभी देशी नस्लों को बढ़ावा नहीं देगी। केन्द्र सरकार देशी नस्ल सुधार कार्यक्रम पर विशेष बल दे रही है। उसके सहयोग से एक-डेढ़ वर्ष में चमत्कारी परिणाम प्राप्त किए जा सकते हैं। राज्यपाल टंडन ने कहा कि महान नानाजी देशमुख के नाम पर स्थापित विश्वविद्यालय चुनौतियों के नवाचारी सोच के साथ समाधान की कार्य-शैली का उदाहरण प्रस्तुत करे। उन्होंने बताया नानाजी के समय सरकार बोरिंग नि:शुल्क करवाती थी। पम्प पर भी काफी अनुदान था। कॉस्ट आयरन पाइप लगाना पड़ता था, जो बहुत महंगा होता था। गरीब किसान उसका लाभ नहीं ले पाते थे। नाना जी ने निकट के जंगल के बाँसों को अंदर से खोखला कर उनको पाइप बनाकर उपयोग किया और गाँव की खेती की दशा बदल दी। बैठक में कुलपति डा. जुयाल द्वारा बताया गया कि विश्वविद्यालय ने देशी नस्ल की नर्मदा निधि विकसित की है जो ग्रामीण परिवेश में पालन की उपयुक्त नस्ल है। क्लोनिंग प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में एक पेटेंट भी मिला है। उन्होंने विश्वविद्यालय द्वारा गोबर से निर्मित मॉस्किटो रैपलेंट, लकड़ी और गमले के उत्पाद भी दिखाए। बैठक में राज्यपाल के सचिव श्री मनोहर दुबे उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 19 November 2019


ट्रैफिक रूल

  ट्रैफिक कंट्रोल का शुभी जैन का अपना अंदाज   इंदौर की सड़कों पर एक कॉलेज छात्रा अपने अनोखे अंदाज में ट्रैफिक रूल्स समझा रही है | शुभी जैन नाम की यह स्टूडेंट रेड लाइट पर ट्रेफिक नियम समझाने के साथ सलीके से ट्रैफिक कंट्रोल भी कर लेती है | इंदौर की कॉलेज छात्रा शुभी जैन का अपने अंदाज में ट्रैफिक रूल्स बताने वाला वीडियो वायरल हो रहा है | वीडियो में छात्रा रेड लाइट पर रुके वाहनों के पास जाकर लोगों को ट्रैफिक के नियम बता रही हैं | टू-व्हीलर पर जो कोई बिना हेलमेट के नजर आता है उससे कहती हैं कि आप हेलमेट प‍हनिए, कार चालकों को सीट बेल्ट लगाने की सलाह देती हैं | जो कोई भी सीट बेल्ट और हेलमेट लगाए नजर आता है उसे धन्यवाद देती हैं | शुभी जैन का कहना है उम्मीद है हम सभी अपने प्रयासों से जल्दी ही इंदौर को ट्रैफिक में आदर्श शहर बनाएंगे |  वीडियो वायरल होने के बाद लोग उनके इस अंदाज को लोग खूब पसंद कर रहे हैं | शहर के लोगों का कहना है कि जिस तरह स्वच्छता में इंदौर नंबर वन बन है उसी तरह ट्रैफिक रूल्स का पालन करने में भी इसे नंबर वन होना चाहिए  वीडियो में एक जगह शुभी एक व्यक्ति से कहती हैं कि सर आपके पास तो हेलमेट हैं प्लीज इसे पहन लिजिए, उनके इस आग्रह के पास वो व्यक्ति तुरंत अपना हेलमेट पहन लेता है | बाकी सब से वो कहती हुईं नजर आ रही हैं कि सर कोशिश करें की आप अगली बार हेलमेट पहनकर ही गाड़ी चलाएं  शुभी के इस अंदाज को युवा खासा पसंद करते हैं |    

Dakhal News

Dakhal News 17 November 2019


Acid Attack

  छत्तीसगढ़ी फिल्मों की अभिनेत्री हैं माया   छत्तीसगढ़ी फिल्मों की अभिनेत्री माया साहू पर भिलाई में एसिड अटैक किया गया | माया पर यह एसिड अटैक उस समय हुआ जब वो अपने घर से बाहर निकल रहीं थी |  सुपेला इलाके में माया नाम की अभिनेत्री पर ऐसिड अटैक की घटना हुई है | बताया जा रहा है कि युवती आपने घर से बाहर निकल रही थी, इसी दौरान किसी युवक ने उस पर केमिकल फेंक दिया, जिससे उसे तेज जलन हुई और उसका शरीर झुलसने लगा | युवती को जिला अस्पताल दुर्ग में उपचार के लिए दाखिल कराया गया  माया साहू छत्तीसगढ़ी फिल्मों की अभिनेत्री है|  पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शनिवार की दोपहर पीड़ित युवती माया साहू सुपेला स्थित अपने घर से बाहर निकली थी | इसी दौरान बाइक सवार एक युवक वहां पहुंचा और बोतल में रखा केमिकल उसपर उड़ेल कर फरार हो गया  इसके बाद युवती दर्द से छटपटाने लगी सड़क पर मौजूद लोगों ने युवती को उठाया और परिजनों को सूचना दी इसके बाद पुलिस को घटना की सूचना दी गई और युवती को तत्काल अस्पताल ले जाया गया | डॉक्टरों ने युवती पर एसिड से हमले की पुष्टी की है | पुलिस ने अज्ञात युवक के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है | यह घटना शहर के बेहद भीड़-भाड़ वाले इलाके में हुई  बताया जा रहा है कि युवती के सिर पर भी चोट आई है |

Dakhal News

Dakhal News 17 November 2019


bus Accident

  बिरसा मुंडा जयंती मना कर वापस आ रहे थे   सतना में शुक्रवार को हुई बस दुर्घटना में 4 लोगों की मौत हो गई इस हादसे में दो दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए  बस सवार सभी लोग बिरसा मुंडा जयंती मनाकर वापस आ रहे थे |    बस हादसे में हुए सभी घायलों को मैहर के सिविल अस्‍पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया है | हालांकि सतना कलेक्टर डॉक्टर सत्येंद्र सिंह ने   30 घायलों की पुष्टि की है | मृतकों के परिजनों को दो -दो लाख ,गंभीर रूप से घायल को 25 - 25 हजार और अन्य घायलों को दस दस हजार रुपये देने की घोषणा की गई है | मुख्‍यमंत्री कमलनाथ ने इस घटना पर शोक व्‍यक्‍त किया है |  बस में सवार लोग बिरसा मुंडा जयंती कार्यक्रम से लौट  रहे थे | बताया जाता है कि यह हादसा मैहर अमडा नाला नेशनल हाईवे पावरहाउस के सामने हुआ यहां बस रोड से 5 फीट नीचे गिर गई  इसमें बड़ी संख्‍या में लोग दब गए  दुर्घटना में बस चालक की मौके पर ही मौत हो गई जबकि अनेक लोगों के बस के नीचे दब गए थे | मैहर एसडीएम सुरेश अग्रवाल ने मौतों की पुष्टि की बस मैहर से कटनी की तरफ जा रही थी ये लोग रीवा से बस में बिरसा मुंडा जयंती मना कर वापस आ रहे थे | 

Dakhal News

Dakhal News 16 November 2019


cbse

cbse exam केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने सत्र 2020 के परीक्षा पैटर्न में बदलाव कर प्रैक्टिकल और इंटरनल असेसमेंट को उन ज्यादातर विषयों में भी लागू कर दिया है, जिनमें अभी तक यह लागू नहीं था। बताया जा रहा है कि इंटरनल असेसमेंट 20 अंकों का होगा, जिसमें पास होने के लिए छात्रों को कम से कम छह नंबर हासिल करने होंगे। बोर्ड ने 10वीं और 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिए थ्योरी, प्रोजेक्ट और इंटरनल असेसमेंट में न्यूनतम अंक की सूची जारी कर दी है। सीबीएसई के सर्कुलर में कहा गया है कि प्रोजेक्ट और प्रैक्टिकल परीक्षा लेने के लिए बोर्ड द्वारा परीक्षक नियुक्त किया जाएगा। वहीं, इंटरनल असेसमेंट स्कूल के ही शिक्षकों द्वारा किया जाएगा। इसके अलावा, दसवीं के छात्रों को पास होने के लिए हर विषय में प्रैक्टिकल और थ्योरी में मिलाकर 33 प्रतिशत अंक ही लाने होंगे। मगर, 12वीं के छात्रों को पास होने के लिए प्रैक्टिकल, थ्योरी और इंटरनल असेसमेंट में अलग-अलग 33 फीसद अंक लाने होंगे। 12वीं कक्षा में पहले हिंदी, अंग्रेजी, गणित आदि विषयों की परीक्षा 100 अंक की होती थी। मगर, नई व्यवस्था के अनुसार अब इनमें भी 20 अंकों का इंटरनल असेसमेंट भी कराया जाएगा। सर्कुलर में कहा गया है कि 70 अंकों की परीक्षा वाले पेपर में छात्रों को पास होने के लिए कम से कम 23 नंबर लाने होंगे। वहीं, 30 अंकों की प्रैक्टिकल परीक्षा में नौ अंक लाने अनिवार्य होंगे। सीबीएसई ने प्री-बोर्ड परीक्षा के लिए टाइम टेबल जारी कर दिया है। इसके अनुसार, 10वीं और 12वीं कक्षा की प्री-बोर्ड परीक्षाएं 16 से 30 दिसंबर तक होंगी। इसके साथ ही विद्यालयों को यह भी निर्देश दिया है कि प्री-बोर्ड परीक्षाएं दो शिफ्ट में कराने की जगह एक शिफ्ट में कराएं। सीबीएसई के परीक्षा नियंत्रक संयम भारद्वाज ने बताया कि बदले परीक्षा पैटर्न के बारे में सभी स्कूलों को जानकारी दे दी गई है। छात्रों को बोर्ड परीक्षा के लिए तैयार करने के लिए प्री-बोर्ड परीक्षा भी इसी पैटर्न पर की जाएगी।

Dakhal News

Dakhal News 13 November 2019


बछिया और बछड़े की शादी

  बछिया और बछड़ा बने दूल्हा- दुल्हन   एक बछिया दुल्हन बनी और बछड़ा बना दूल्हा  | सुनने में यह बड़ा अजीब लगता है लेकिन है सच  इन दोनों की शादी में बाराती भी थे और बैंडबाजा भी | पूरे विधिविधान से यह  अनोखी  विवाह हुआ  |   सीहोर जिले के जावर तहसील के गांव करमनखेड़ी में एक बछिया और बछड़े की शादी का अनोखा मामला सामने आया | जिसमें दुल्हा गाय का बछड़ा तो दुल्हन गाय की बछड़ी थी, जबकि बाराती के रूप में ग्रामीण थे | बैंडबाजों के साथ जब  बारात निकली तो देखने वाले देखते ही रह गए | करमनखेड़ी गांव में दो महीने पहले एक गाय का बछड़ा और बछिया बाहर से आ गए थे | यह दोनों ही साथ में रहने लगे | जहां पर जाते वहां भी साथ में ही रहते थे | दोनों के बीच का प्रेम देखकर ग्रामीण आश्चर्य में पड़ गए | उनके इस प्रेम को देखने के बाद सभी ने मिलकर दोनों की शादी कराने का निर्णय लिया  ग्रामीणों ने इसके लिए राशि एकत्रित की | वहीं बकायदा गणेश पूजन के बाद दोनों को दुल्हा-दुल्हन बनाया गया | गांव वालों ने पूरे विधि विधान से यह विवाह कराया गया | खास बात यह है कि शादी कराने के लिए पंडितों को बुलाया गया | विवाह के दिन वर पक्ष बछड़े की तरफ से अर्जुनसिंह ठाकुर बैंडबाजे के साथ बारात लेकर वधु पक्ष बछिया के तेजसिंह आचार्य के घर बारात लेकर पहुंचे | यहां बकायदा स्टेज सजाया गया था, जहां एक से बढ़कर एक नृत्य की प्रस्तुति देखने को मिली | उसके बाद वर और वधु  के अग्नि के  समक्ष सात फेरे करवाए गए |  अनोखी शादी को जिसने भी देखा वह देखते ही रह गया |    

Dakhal News

Dakhal News 12 November 2019


मंत्री शर्मा

जंबूरी मैदान मेँ होगी संगीतमय रामकथा मंत्री शर्मा  जनसम्पर्क तथा धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री पी.सी. शर्मा ने जंबूरी मैदान पर संगीतमय रामकथा के आयोजन के लिये आज भूमि-पूजन किया।  गुफा मन्दिर के महंत  चंद्रमा दास त्यागी पार्षद  योगेंद्र सिंह चौहान तथा गिरीश शर्मा और राम कथा आयोजन समिति के पदाधिकारी मौज़ूद थे।    

Dakhal News

Dakhal News 4 November 2019


मंत्री  शर्मा ने रवाना की पटना साहिब के लिये पहली विशेष तीर्थ दर्शन ट्रेन

तीर्थ दर्शन के लिये रवाना हुए भोपाल, सागर, रायसेन, होशंगाबाद जिले के एक हजार श्रृद्धालु जनसम्पर्क तथा धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री  पी. सी. शर्मा ने आज हबीबगंज रेल्वे स्टेशन से सिख तीर्थ पटना साहिब  के लिये पहली विशेष तीर्थ दर्शन ट्रेन को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया। ट्रेन से भोपाल, सागर, रायसेन, होशंगाबाद जिले के 1000 से अधिक श्रृद्धालु तीर्थ यात्रा पर रवाना हुए। मंत्री शर्मा ने तीर्थ यात्रियों से कहा कि मुख्यमन्त्री  कमल नाथ ने  तीर्थ दर्शन योजना मेँ सभी धर्मो के धार्मिक स्थल  को सम्मिलित किया है।  शर्मा ने ट्रेन के सभी कोच  मेँ पहुँच कर तीर्थ यात्रियों का फूल मालाओं से स्वागत किया। साथ ही,  ट्रेन मेँ अटेंडर स्टाफ और चिकित्सक से मिले तथा रसोई आदि की व्यवस्था का निरीक्षण कियाl  इस अवसर पर  नरेन्द्र सलूजा,पार्षद योगेंद्र सिंह चौहान और  अमित शर्मा सहित बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।  सूर्योदय के पहले घाट पर की  छठ पूजा   मंत्री शर्मा आज सुबह सूर्योदय से पहले शिवाजी नगर के तालाब पर छठ पूजा घाट पर पहुँचे और परम्परानुसार छठ पूजा की।  शर्मा बड़ा तालाब पर शीतलदास की बगिया और प्रेमपुरा  घाट सहित छठ पूजा के अन्य घाटों पर पहुँचकर पूजा मेँ सम्मिलित हुए। पार्षद  योगेंद्र सिंह चौहान साथ थेl   

Dakhal News

Dakhal News 4 November 2019


मां ने क़ी  बेटे की विदाई

  लोकगीत चोला माटी के राम के साथ बेटे की विदाई यह दृश्य देखेंगे तो खुद को रोने से रोक नहीं पाएंगे   एक कलाकार माँ ने जब अपने कलाकार बेटे को अंतिम विदाई दी तो माहौल बेहद ग़मगीन था | ऐसे में माँ के होठों से एक लोकगीत चोला माटी के राम | निकला तो कलेजा फट पड़ा  इस वेदना के पलों में आँखों में सिर्फ आंसुओं का सैलाब था  |    लोक गायिका व अभिनेत्री मां और प्रसिद्ध लोक कलाकार के इस लाडले की अंतिम विदाई के समय ममता नगर में जो कुछ हुआ, वैसा केवल किस्से-कहानियों में ही  मिलता है  | यह दृश्य किसी को भी रोने को मजबूर कर सकते हैं  | मां ने बेटे की अंतिम इच्छा के अनुरूप छत्तीसगढ़ी लोकगीत  एकर का भरोसा, चोला माटी के राम  गाकर अंतिम विदाई दी  साथी कलाकारों ने ढोलक और हारमोनियम पर संगत देकर दोस्त को श्रद्धांजलि अर्पित की पूनम तिवारी और रंगकर्मी दीपक तिवारी के बेटे सूरज तिवारी  का  हृदयाघात से  निधन हो गया  | अंतिम यात्रा की तैयारी शुरू हुई अर्थी तैयार की गई आरती तिलक के बाद मुक्तिधाम निकलने के पहले मां पूनम ने बेटे की अंतिम इच्छा को पूरा करने के लिए दिल पर पत्थर रखा और अपने नाटक के लोकगीत 'एकर का भरोसा, चोला माटी के राम गाया  | यह गीत पूनम तिवारी  सैकड़ों बार गा चुकी थीं, लेकिन  एक बेटे का मां से हमेशा के लिए बिछड़ने की जो पीड़ा थी, उसने सभी को रुला दिया |  सूरज कुछ दिनों पहले बीमार हुए तो पल्स नेहरू नगर अस्पताल में भर्ती किए गए थे  | थोड़ा आराम लगा तो 29 अक्टूबर को तिल्दा के एक गांव में कार्यक्रम देने चले गए |यह उनके जीवन की  आखिरी  प्रस्तुति थी | गायक, वादक और रंग छत्तीसा के संचालक  सूरज की मौत से कला के पुजारी इस परिवार पर जैसे दुखों का  पहाड़ टूट पड़ा  सूरज बचपन से पिता के नाटक चरणदास चोर को देखते आए थे  |  उन्होंने  हबीब तनवीर के साथ काम किया  | नाटक आगरा बाजार का सैकड़ों शो  भी किये  |   

Dakhal News

Dakhal News 3 November 2019


 लापता बच्ची

  पुलिस पर लापरवाही बरतने का लगा आरोप   रीवा में नौ वी क्लास की एक छात्रा पिछले चार दिन से लापता है  | इस मामले में भी पुलिस ने बच्ची की खोज के लिए कोई प्रयास नहीं किये हैं  | पुलिस की कार्यप्रणाली से नाराज बच्ची के परिजनों ने पुलिस स्टेशन का घेराव किया  |     चार दिन से लापता 9वीं कक्षा की छात्रा आशी द्विवेदी को तलाशने में जब  रीवा पुलिस ने कोई ख़ास मशक्क्त नहीं की तो   उसके  परिजनों ने सिविल लाइन थाने का घेराव किया  सिविल लाईन थाना अंतर्गत भाजपा कार्यालय के पीछे रहने वाली 15 वर्षीय नाबालिक आशी द्विवेदी 20 अक्टूबर को सुबह अचानक   लापता  हो गई | परिजनों ने पुलिस पर  तलाश में ढिलाई बरतने का आरोप लगाते हुए थाने का घेराव किया  |   वहीँ  4 दिन से लापता बच्ची  के परिजन परेशान हैं  | उन्हें आशंका सता रही है कि पुलिस की लापरवाही से बच्ची के साथ कुछ अनहोनी न हो जाए वहीं सिविल लाइन थाना प्रभारी राजकुमार मिश्रा ने बच्ची के परिजनों से कहा कि हमारे पास और भी कार्य रहते हैं | यह सुनकर बच्ची के परिजनों ने  डीआईजी  अविनाश शर्मा के पास जा कर शिकायत दर्ज कराई  | अविनाश शर्मा ने आश्वासन दिया की जल्द ही बच्ची को घर वापस लाया जाएगा  और थाना प्रभारी के द्वारा दिए गए इस अनर्गल बयान की जांच कराई जाएगी  |

Dakhal News

Dakhal News 24 October 2019


tendua kee maut

  तेंदुए के लिए काल बनते जा रहे है हाइवे के ट्रक   लखनादौन - नरसिंहपुर के  बीच आमानाला के पास फोरलेन पर अज्ञात वाहन की टक्कर से तेंदुआ की मौत हो गई  | इसके पूर्व भी इसी फोरलेन पर दो तेंदुआ की मौत हो चुकी है वन अधिकारीयों ने बताया कि वाहन से टकराकर ही तेंदुए की मौत हुई है  |   सिवनी के पास फोरलेन सड़क पर फिर एक तेंदुआ मारा गया है  |वन परिक्षेत्र अधिकारी दिनेश यादव ने घटना की पुष्टि  की और बताया वन अमला मौके पर पहुंचा और घटना का जायजा लिया | बीती रात  इस दुर्घटना के बाद सुबह पशु चिकित्सा दल की टीम घटना  पहुंची और मौका मुआयना किया और  तेंदुए की मौत का कारन किसी भारी वाहन से टकराने को बताया  | इसी इलाके में ये इस तरह तेंदुए की मौत की तीसरी घटना है  | वहीं दूसरी ओर लगातार वन्यजीवों की  मौत के विरुद्ध मंगवानी वन विभाग के डिपो के सामने समाजसेवियों के धरना प्रदर्शन किया  | आंदोलनकारियों का कहना है कि वन्यजीवों की सुरक्षा में वन विभाग पूरी तरह से नाकाम है  |  यह तीसरी घटना है जब सड़क दुर्घटना में तेंदुआ की मौत हुई है और वन विभाग इस दिशा में कोई कारगर पहल नहीं कर पा रहा है  |  

Dakhal News

Dakhal News 23 October 2019


आफत में धान