समाज


bhopal, 932 people died, corona, MP, number of infected ,crosses 36 thousand

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना का कहर जारी है। यहां अब दो जिलों में कोरोना के 299 नये मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। इसके बाद राज्य में कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 36 हजार के पार पहुंच गई है। वहीं, प्रदेश में अब तक कोरोना से 932 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि, यहां अब तक 26,064 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच चुके हैं। अब यहां सक्रिय प्रकरण 8900 के करीब हैं।   इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने गुरुवार को बताया कि एमजीएमजी मेडिकल कॉलेज द्वारा बुधवार देर रात जारी की गई 2060 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट में 157 नये संक्रमित मिले हैं। वहीं, तीन लोगों की कोरोना से मौत की पुष्टि हुई है। इसके बाद जिले में संक्रमितों की कुल संख्या 8014 और मृतकों की संख्या 325 हो गई है। वहीं, भोपाल सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी के अनुसार राजधानी में गुरुवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में 142 नये पॉजिटिव मरीज मिले हैं।    इंदौर-भोपाल में मिले इन 299 नये मामलों के साथ राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 36,033 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 8014, भोपाल 7257, ग्वालियर, 2659, मुरैना 1690, जबलपुर 1564, उज्जैन 1238, खरगौन 828, नीमच 792, सागर 727, बड़वानी 802, खंडवा 680, बुरहानपुर 488, भिण्ड 479, देवास 451, रतलाम 489, मंदसौर 460, धार 455, छतरपुर 369, रायसेन 378, रीवा 388, टीकमगढ़ 319, राजगढ़ 389, विदिशा 358, शाजापुर 301, शिवपुरी 342, सीहोर 315, श्योपुर 251, बैतूल 274, दतिया 233, होशंगाबाद 268, हरदा 220, दमोह 252, सतना 204, छिंदवाड़ा 202, अलीराजपुर 181, नरसिंहपुर 207, कटनी 174, झाबुआ 165, बालाघाट 149, पन्ना 106, सिंगरौली 114, आगरमालवा 96, अशोकनगर, 99, सीधी 108, शहडोल 87, गुना 89, अनूपपुर 75, निवाड़ी 53, उमरिया 46, सिवनी 52, डिंडौरी 53 और मंडला 43 मरीज शामिल हैं।    वहीं, इंदौर में हुई तीन मौतों के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 932 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 325, भोपाल 197, उज्जैन 74, बुरहानपुर 25, खंडवा 19, जबलपुर 33, खरगौन 18, ग्वालियर 13, धार 10, मंदसौर 11, नीमच 09, सागर 35, देवास 10, रायसेन 08, होशंगाबाद 08, सतना 08, आगरमालवा 04, झाबुआ 03, अशोकनगर 03, शाजापुर 05, दतिया 04, छिंदवाड़ा 02, सीहोर 11, उमरिया 02, रतलाम 12, बड़वानी 08. मुरैना 09, राजगढ़ 10, श्योपुर 02, टीमकगढ़ 08, रीवा 05, गुना 04, हरदा 06, कटनी 04, सीधी 01, शिवपुरी 03, अलीराजपुर 01, भिंड 01, बैतूल 03, नरसिंहपुर 01, सिवनी 01, सिंगरौली 02, छतरपुर 08, विदिशा 02, दमोह 04 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है।

Dakhal News

Dakhal News 6 August 2020


Shivpuri, Unidentified youth ,damaged Ambedkar statue , Pichore, case registered

शिवपुरी। जिले के पिछोर तहसील मुख्यालय स्थित बस स्टैंड पर लगी डॉ. भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा को किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा बीती देर रात क्षतिग्रस्त कर दिया गया। यह घटना सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई। गुरुवार सुबह स्थानीय लोगों ने प्रतिमा को क्षतिग्रस्त देख पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने अज्ञात आरोपित के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इधर, घटना को लेकर प्रदेश में राजनीति भी शुरू हो गई। बसपा नेताओं ने मामले को लेकर कलेक्टर को एक ज्ञापन सौंपा है, जिसमें आरोपित के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की गई है।   नगर पुलिस निरीक्षक अजय भार्गव के मुताबिक, घटना बीती देर रात की है। सीसीटीवी फुटेज से पता चला है कि एक युवक रात लगभग 10.45 बजे मुंह पर कपड़ा बांधकर वहां पहुंचा और मूर्ति को नुकसान पहुंचाया। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर प्रकरण दर्ज किया है और मामले की जांच की जा रही है।    बता दें कि मध्यप्रदेश में आने वाले दिनों में विधानसभा की रिक्त 27 सीटों पर उपचुनाव होने वाले हैं। इनमें शिवपुरी जिले की सीटें भी शामिल हैं। इसीलिए यह मुद्दा राजनीति का विषय बन गया है। बसपा ने इस मुद्दे को लपक लिया और गुरुवार सुबह ही पार्टी नेताओं-कार्यकर्ताओं ने नाराजगी जताते हुए कलेक्टर के नाम स्थानीय तहसील कार्यालय में एक ज्ञापन सौंपा।

Dakhal News

Dakhal News 6 August 2020


Indore, City, gym, parlor, yoga center , library ,all open ,after 130 days

इंदौर। कोरोना संकट में करीब 130 दिन लॉक रहने के बाद शहर बुधवार से पूरी तरह अनलॉक हो गया। जिम, योग केंद्र, लाइब्रेरी, ब्यूटी पार्लर के शटर बुधवार से उठ गए। इसके अलावा इंदौर में लगे बाजारों पर प्रतिबंध को पूरी तरह से हटा लिया गया है। अब सभी के लिए एक जैसे नियम लागू होंगे।   जिला आपदा प्रबंधन समूह की बैठक के बाद कलेक्टर मनीष सिंह ने शहर के राजबाड़ा और आसपास के मध्य क्षेत्र जोन वन एरिया में फिलहाल लेफ्ट-राइट को खत्म कर दिया। मध्य क्षेत्र सहित पूरे जिले में सभी तरह की दुकानें और बाजार सप्ताह में छह दिन सुबह सात से रात आठ बजे तक खोले जा सकेंगे। कलेक्टर के अनुसार जिम, योगा केंद्र आदि को केंद्र द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन करना होगा। 56 दुकान पर आकर ग्राहक टेक अवे सुविधा में सामग्री ले जा सकेंगे। हालांकि रात्रिकालीन कर्फ्यू अभी नहीं हटाया गया है और जिले में रात 9 से सुबह 5 बजे तक का कर्फ्यू जारी रहेगा। इसके साथ हर रविवार को टोटल लॉकडाउन भी रहेगा, इसमें केवल मेडिकल इमरजेंसी के लिए ही बाहर जा सकेंगे और दूध का वितरण भी केवल सुबह होगा।

Dakhal News

Dakhal News 5 August 2020


ujjain, Mahaarti organized, Mahakal temple , occasion , Ramjan Bhoomipujan

उज्जैन। अयोध्या में पांच अगस्त को भव्य राम मंदिर निर्माण के लिए भूमिपूजन होने जा रहा है। इसको लेकर मध्यप्रदेश में उत्साह चरम पर है। प्रदेशभर में मंगलवार और बुधवार की रात घर-घर में दीप जलाए जाएंगे और सुंदरकांड के पाठ होंगे। इसी क्रम में उज्जैन स्थित विश्व प्रसिद्ध ज्योतिर्लिंग भगवान महाकालेश्वर के मंदिर में बुधवार, पांच अगस्त को महाआरती का आयोजन किया जाएगा। मंदिर के सहायक प्रशासनिक अधिकारी आरके तिवारी ने मंगलवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि महाकालेश्वर मंदिर के सभा मंडप स्थित भगवान श्री राम के मंदिर में बुधवार, पांच अगस्त को दोपहर 12 बजे महाआरती का आयोजन किया गया है। वहीं, मंदिर के पुजारी लोकेन्द्र व्यास ने बताया कि, श्री राम मंदिर के भूमि पूजन के अवसर पर सभामंडप में स्थित श्री राम जी के मंदिर में भगवान की महाआरती होगी। सभी पुजारी, पुरोहित, श्रद्धालुजन, मीडिया आदि आमंत्रित है, सुरक्षा अंतर्गत दूरी रख मास्क पहनकर सभी शामिल होंगे। भक्तजन रामधुन व सुन्दर काण्ड का श्रवण कर सकेंगे।बाल हनुमान मंदिर में अखंड रामचरित मानस का पाठमहाकालेश्वर मंदिर परिसर में स्थित श्री बाल हनुमान मंदिर के पुजारी जॉनी गुरू ने बताया कि इस अवसर पर हनुमान जी की विशेष पूजा के साथ ही दिनांक 04 अगस्त की दोपहर से 05 अगस्त की दोपहर 12 बजे तक रामचरित मानस का अखंड पाठ किया जा रहा है।दीपों से प्रज्जवलित होगा मंदिर श्री राम जन्म भूमि पूजन के उपलक्ष में यश गुरू जी के सौजन्य से मंदिर में 1100 दीपक प्रज्जवलित किये जायेंगे, जो क्रमश: गर्भगृह नंदीहॉल व परिसर ओटले पर सुशोभित होंगे।

Dakhal News

Dakhal News 4 August 2020


bhopal, Death toll , corona, MP crosses 900, 197 new cases

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना का कहर जारी है। यहां अब दो जिलों में कोरोना के 197 नये मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। इसके बाद राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 34 हजार 482 हो गई है। मृतकों का आंकड़ा भी नौ सौ के पार पहुंच गया है। यहां अब तक कोरोना से 903 लोगों की मौत हो चुकी है।   इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने मंगलवार को बताया कि एमजीएमजी मेडिकल कॉलेज द्वारा सोमवार देर रात जारी की गई 1973 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट में 89 नये संक्रमित मिले हैं। वहीं, तीन लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। अब यहां संक्रमितों की कुल संख्या 7735 और मृतकों की संख्या 320 हो गई है। वहीं, भोपाल सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी के अनुसार, राजधानी में मंगलवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में 108 नये पॉजिटिव मिले हैं। इनमें भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व विधायक ध्रुव नारायण सिंह की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है।   इंदौर-भोपाल में मिले 197 नये मामलों के साथ अब राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 34,482 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 7735, भोपाल 6901, ग्वालियर, 2507, मुरैना 1643, जबलपुर 1446, उज्जैन 1218, खरगौन 806, नीमच 775, सागर 700, बड़वानी 764, खंडवा 668, बुरहानपुर 484, भिण्ड 460, देवास 448, रतलाम 458, मंदसौर 441, धार 442, छतरपुर 362, रायसेन 368, रीवा 367, टीकमगढ़ 310, राजगढ़ 370, विदिशा 342, शाजापुर 297, शिवपुरी 320, सीहोर 301, श्योपुर 249, बैतूल 266, दतिया 230, होशंगाबाद 238, हरदा 216, दमोह 228, सतना 188, छिंदवाड़ा 190, अलीराजपुर 178, नरसिंहपुर 183, कटनी 169, झाबुआ 146, बालाघाट 135, पन्ना 100, सिंगरौली 89, आगरमालवा 91, अशोकनगर, 98, सीधी 94, शहडोल 79, गुना 79, अनूपपुर 72, निवाड़ी 51, उमरिया 45, सिवनी 49, डिंडौरी 48 और मंडला 38 मरीज शामिल हैं।    इंदौर में हुई तीन मौतों के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 903 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 320, भोपाल 190, उज्जैन 74, बुरहानपुर 25, खंडवा 19, जबलपुर 30, खरगौन 18, ग्वालियर 13, धार 10, मंदसौर 11, नीमच 09, सागर 33, देवास 10, रायसेन 08, होशंगाबाद 07, सतना 08, आगरमालवा 03, झाबुआ 03, अशोकनगर 03, शाजापुर 04, दतिया 04, छिंदवाड़ा 02, सीहोर 11, उमरिया 02, रतलाम 10, बड़वानी 08. मुरैना 09, राजगढ़ 09, श्योपुर 02, टीमकगढ़ 08, रीवा 03, गुना 04, हरदा 06, कटनी 03, सीधी 01, शिवपुरी 02, अलीराजपुर 01, भिंड 01, बैतूल 03, नरसिंहपुर 01, सिवनी 01, सिंगरौली 02, छतरपुर 08, विदिशा 02, दमोह 02 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है। हालांकि, प्रदेश में अब तक 24,099 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच चुके हैं। अब प्रदेश सक्रिय प्रकरण 9400 के करीब हैं।

Dakhal News

Dakhal News 4 August 2020


bhopal, Chances Jhamajam, MP, Meteorological Department, issued yellow alert

भोपाल। जुलाई माह में सावन का महीना सूखा गुजरने के बाद अब अगस्त में अच्छी बारिश लेकर आ रहा है। पूरे मध्यप्रदेश में एक बार फिर बारिश का दौर शुरू हो गया है। सोमवार के दिन सावन माह खत्म हो रहा है, जबकि मंगलवार से शुरू हो रहे भादो में अच्छी बारिश की उम्मीद की जा रही है। मौसम विभाग के मुताबिक मंगलवार से वातावरण में नया सिस्टम बनने से अब तेज बारिश का दौर शुरू हो रहा है। मौसम विभाग ने एक बार फिर सोमवार को यलो अलर्ट जारी किया है।   राजधानी भोपाल में मंगलवार सुबह से मौसम खुशनुमा बना हुआ है। यहां अल सुबह के समय झमाझम बारिश के बाद मौसम में ठंडक घुल गई है। वहीं मौसम विभाग ने यलो अलर्ट जारी कर एक दर्जन से अधिक जिलों में भारी बारिश की चेतावनी दी है। इसके अलावा कुछ जिलों में गरज-चमक के साथ बारिश और बिजली गिरने की भी आशंका जताई है। मौसम विभाग के मुताबिक सागर संभाग के जिलों में तथा उमरिया, कटनी, जबलपुर, मंडला, बैतूल, हरदा, खंडवा, खरगौन, धार, इंदौर, देवास, दतिया, मुरैना, भिंड जिलों में भारी बारिश की चेतावनी दी है।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक शैलेंद्र नायक के मुताबिक मानसून 4 अगस्त के बाद से तीन चार दिनों तक सक्रिय रहेगा। इस दौरान 12 अगस्त तक मध्य प्रदेश में सामान्य या सामान्य से अधिक वर्षा की संभावना है। एक कम दबाव क्षेत्र 04 अगस्त 2020 तक बंगाल की उत्तरी खाड़ी में बनने की संभावना है। नतीजतन, मानसून गर्त जो वर्तमान में सामान्य स्थिति में है, अगले 3-4 दिनों के दौरान सक्रिय होने की संभावना है। निचले स्तर दक्षिण-पश्चिम / पश्चिमी हवाओं ने अरब सागर के ऊपर बंगाल की खाड़ी और अंडमान सागर के दक्षिणी भागों में मजबूत जुई हुईं है।   इन जिलों में गिर सकती है बिजली मौसम विभाग ने कुछ जिलों में बिजली चमकने और बिजली गिरने की भी चेतावनी जारी की है। इसमें भोपाल और होशंगाबाद संभाग के जिले शामिल हैं। इनके अलावा खंडवा, खरगौन जिलों में भी बिजली चमकने के साथ ही बिजली गिरने की भी आशंका है।   यहां बारिश की संभावना मौसम विभाग ने सोमवार को पूर्वानुमान जारी कर कहा है कि प्रदेश के लगभग सभी संभागों में बारिश का दौर शुरू हो गया है। जबलपुर, होशंगाबाद, इंदौर और चंबल संभागों के जिलों में तथा उज्जैन, शाजापुर, सरतलाम, देवास, आगर जिलों में ज्यादातर स्थानों पर बारिश हो सकती है। इनके अलावा रीवा, शहडोल और सागर संभागों के जिलों में भी अनेक स्थानों पर बारिश या गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ सकती है। ग्वालियर और भोपाल संभागों के जिलों में तथा नीमच और मंदसौर जिलों में कुछ स्थानों पर बारिश की संभावना है।

Dakhal News

Dakhal News 4 August 2020


ujjain,Lord Mahakaleshwar, come out today, requesting devotees , live darshan, home.

उज्जैन। भगवान श्री महाकालेश्वर की पांचवी और श्रावण मास 2020 के अन्तिम सवारी आज शाम 4 बजे महाकाल मन्दिर से परिवर्तित मार्ग से निकाली जायेगी। इस दौरान भगवान महाकाल पालकी में मनमहेश के रूप में तथा हाथी पर चंद्रमौलेश्वर के रूप में विराजित होकर भ्रमण पर निकलेंगे। परिवर्तित मार्ग अनुसार भगवान महाकालेश्वर की सवारी महाकाल मन्दिर से बड़ा गणेश मन्दिर होते हुए हरसिद्धि मन्दिर चौराहा पहुंचेगी। यहां से झालरिया मठ और बालमुकुंद आश्रम होते हुए सवारी रामघाट पर पहुंचेगी। रामघाट पर पूजन-अर्चन के पश्चात सवारी रामानुजकोट, हरसिद्धि की पाल होते हुए हरसिद्धि मन्दिर मार्ग, बड़ा गणेश मन्दिर के सामने से होती हुई पुन: महाकालेश्वर मन्दिर पहुंचेगी। सवारी का लाईव प्रसारण विभिन्न चैनलों द्वारा किया जायेगा। कलेक्टर एवं अध्यक्ष श्री महाकालेश्वर मन्दिर प्रबंध समिति श्री आशीष सिंह ने श्रद्धालुओं से आग्रह किया है कि कोरोना संक्रमण के मद्देनजर वे सवारी देखने के लिये घरों से बाहर न निकलें। उन्होंने कोरोना संक्रमण से बचाव को ध्यान में रखते हुए सभी श्रद्धालुओं से आग्रह किया है कि वे घरों में ही रहकर भगवान महाकाल की सवारी का दर्शन लाभ लें। 

Dakhal News

Dakhal News 3 August 2020


Narsinghpur, Four people , same family, including two children, die , truck overturns

नरसिंहपुर। जिले के गाडऱवाड़ा थाना क्षेत्र में सोमवार को तडक़े एक तेज रफ्तार ट्रक अनियंत्रित होकर पलट गया। इस हादसे में ट्रक में सवार चार लोगों की मौत हो गई। इनमें दो बच्चे भी शामिल हैं। चारों मृतक एक ही परिवार के बताये जा रहे हैं। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू की। हादसे के बाद ट्रक चालक और परिचालक मौके से फरार हो गए।   जानकारी के मुताबिक, गाडऱवाड़ा थाना मुख्यालय से करीब आठ किलोमीटर दूर ग्राम नांदनेर के पास सोमवार तडक़े करीब चार बजे यह हादसा हुआ। बताया जा रहा है कि तेल के डिब्बों से भरा ट्रक जबलपुर जा रहा था। इसी दौरान ट्रक अनियंत्रित होकर पलट गया और उसमें सवार चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। मृतकों की पहचान देवास जिले के सोनकच्छ निवासी 35 वर्षीय वीरेन्द्र बजाज, उनकी पत्नी 32 वर्षीय पूजा बजाज दो बच्चे 11-12 वर्षीय लक्ष्य व मयंक के रूप में हुई है। पुलिस ने पंचनामा की कार्रवाई कर चारों के शव पोस्टमार्टम के लिए नरसिंहपुर जिला अस्पताल पहुंचाये और मामले की जांच शुरू की।   जानकारी मिली है कि सोनकच्छ में रहने वाला वीरेन्द्र बजाज का परिवार जबलपुर जाने के लिए निकला था। उन्होंने ट्रक में शाहपुरा-भिटौनी तक के लिए लिफ्ट ली थी और हादसे के दौरान सभी ट्रक के अंदर दो रहे थे। इसी दौरान यह हादसा हो गया और चारों की मौत हो गई। हादसे के बाद चालक-परिचालक मौके से फरार हो गए। पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

Dakhal News

Dakhal News 3 August 2020


indore, 91 new cases ,corona found again,two people also died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब यहां कोरोना के 91 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 7646 हो गई है। वहीं, इंदौर में अब तक कोरोना से 317 लोगों की मौत हो चुकी है।   इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने सोमवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा 2029 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई, जिनमें 91 रिपोर्ट पॉजिटिव और शेष रिपोर्ट निगेटिव आई हैं। इन 91 नये मामलों के साथ अब जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 7646 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से दो लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। इसके बाद यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 317 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि अब तक इंदौर में 5235 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 2094 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 3 August 2020


bhopal, Masjid listened , Eid, five people, offered special prayers

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना संकट के बीच शनिवार को ईद-उल-अजहा का पर्व शासन की तय गाइडलाइन के नियमों के मुताबिक मनाया गया। इस दौराम मस्जिदें पूरी तरह सूनी रहीं। राजधानी भोपाल समेत प्रदेशभर में मस्जिदों में पांच-पांच लोगों ने ही ईद की विशेष नमाज अदा की।ईद के मौके पर भोपाल में चौक स्थित जामा मस्जिद में इस बार सार्वजनिक रूप से नमाज अदा नहीं की गई। सभी मस्जिदों में शनिवार सुबह पांच-पांच लोग एकत्रित हुए और दो गज दूरी के नियमों का पालन करते हुए ईद की विशेष नमाज अदी की। इसके अलावा अन्य मुस्लिम धर्मावलबियों द्वारा अपने-अपने घरों में नमाज अदा कर एक-दूसरे को ईद की मुबारकबाद दी। इधर, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ईद उल अजहा पर प्रदेश के सभी मुस्लिम भाई-बहनों को मुबारकबाद दी। उन्होंने ट्वीट के माध्यम से कहा कि - ‘मेरे सभी मुस्लिम भाई-बहनों को ईद उल अज़हा की बहुत-बहुत मुबारकबाद। त्योहार सानंद मनाएं, लेकिन कोरोना से सावधान रहें। साफ-सफाई का ध्यान रखें और घरों में ही नमाज अता करें। बधाई, शुभकामनाएं।वहीं, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और पूर्व सीएम कमलनाथ ने भी ईद के मौके पर ट्वीट के माध्यम से प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने ट्वीट किया है कि -‘समस्त देशवासियों -प्रदेश वासियों को ईद-उल अजहा की दिली मुबारकबाद।’

Dakhal News

Dakhal News 1 August 2020


indore, 120 new ,corona cases, found again , active patients, cross two thousand

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है। यहां अब कोरोना के 120 नये मामले सामने आए हैं जबकि एक व्यक्ति की मौत हुई है। इसके बाद इंदौर में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 7448 हो गई है। इंदौर में अब तक कोरोना से 312 लोगों की मौत हो चुकी है। रोजाना अधिक संख्या में नये संक्रमित मिलने से यहां सक्रिय मरीजों की संख्या भी दो हजार के पार पहुंच गई है। इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने शनिवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा शुक्रवार देर रात 1897 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 120 रिपोर्ट पॉजिटिव और शेष निगेटिव आई हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 7448 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से एक व्यक्ति की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 312 हो गई है। हालांकि राहत की खबर यह है कि इंदौर में अब तक 5076 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की कुल संख्या 2060 हो गई है। बता दें कि इंदौर में बीते 10 दिन से लगातार सौ से अधिक नये संक्रमित मिल रहे हैं, जबकि स्वस्थ होकर घर लौटने वालों की संख्या स्वस्थ होने वाले मरीजों की तुलना में काफी है। इसीलिए यहां सक्रिय मरीजों की संख्या तेजी से बढ़कर दो हजार के पार पहुंच गई है।

Dakhal News

Dakhal News 1 August 2020


bhopal,  festival of Rakshabandhan , celebrated on Monday,Shravani Nakshatra

भोपाल। भाई-बहन के प्रेम उत्सव का प्रतीक पर्व रक्षाबंधन सोमवार, तीन अगस्त को श्रावणी नत्रत्र के शुभ संयोग में मनाया जाएगा। इस बार श्रावणी पूर्णिमा के साथ महीने का श्रावण नक्षत्र भी पड़ रहा है, इसलिए पर्व की शुभता और बढ़ जाती है। श्रावणी नक्षत्र का संयोग पूरे दिन रहेगा। हालांकि सुबह सवा सात बजे तक रक्षाबंधन पर भद्रा का साया भी रहेगा। ज्योतिष के अनुसार, भद्राकाल में पर्व मनाना शुभ नहीं है, इसलिए यह समय निकल जाने के बाद ही पर्व मनाएं। ज्योतिषियों के अनुसार रक्षाबंधन के पर्व पर इसके पूर्व में भी कई बार भद्रा की स्थिति बनी है।प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्य सतीश सोनी ने हिन्दुस्थान समाचार से बातचीत में बताया कि तीन अगस्त को सुबह 7.15 बजे तक भद्राकाल की स्थिति बन रही है। इस काल में रक्षाबंधन का पर्व मनाना शुभ नहीं माना गया है। रक्षाबंधन का शुभ मुहूर्त सुबह 9.00 से 10.30 बजे तक शुभ, दोपहर 1.30 से 3.00 बजे तक चलकी चौघडिय़ा, दोपहर 3.00 से 4.30 बजे तक लाभ की चौघडिय़ा, शाम 4.00 से 6.00 बजे तक अमृत की चौघडिय़ा, शाम 6.00 से 7.30 बजे चल की चौघडिय़ा का योग बन रहा है। इसके साथ ही इस बार पर्व पर कई शुभ संयोग भी बने हैं। सावन माह का आखिरी सोमवार, श्रावण पूर्णिमा, श्रावणी नक्षत्र और सर्वार्थसिद्धि का विशेष संयोग बन रहा है। यह दिन नामकरण, अन्न प्राशन, यात्रा, व्यापार, वाहन क्रय के लिए अच्छा है। ब्राह्मण वर्ग रक्षाबंधन के लिए श्रावणी उपकर्म जनेऊ बदलते हैं।        ज्योतिषाचार्य सतीश सोनी ने बताया कि रक्षा बंधन के दिन बहनें भाइयों की कलाई पर रक्षा-सूत्र या राखी बांधती हैं और उनकी दीर्घायु, समृद्धि व खुशी आदि की कामना करती हैं। वहीं, भाई अपनी बहनों की रक्षा का वचन देते हैं। रक्षाबंधन का पर्व श्रावण मास में उस दिन मनाया जाता है, जिस दिन पूर्णिमा अपरान्हृ काल में पड़ रही हो। ध्यान रखें कि यदि पूर्णिमा के दौरान अपराह्न काल में भद्रा हो तो रक्षाबंधन नहीं मनाना चाहिए। ऐसे में यदि पूर्णिमा अगले दिन के शुरुआती तीन मुहूर्त में हो, तो पर्व के सारे विधि-विधान अगले दिन करने चाहिए। लेकिन यदि पूर्णिमा अगले दिन के शुरुआती तीन मुहूर्तों में न हो तो रक्षाबंधन को पहले ही दिन भद्रा के बाद प्रदोष काल के उत्तारार्ध में मना सकते हैं। शास्त्रों के अनुसार चाहे कोई भी स्थिति क्यों न हो भद्रा होने पर रक्षाबंधन मनाना निषेध है। ग्रहण सूतक या संक्रांति होने पर यह पर्व बिना किसी निषेध के मनाया जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 1 August 2020


bhopal, 858 people died,due to corona, 278 new cases

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। अब यहां दो जिलों में कोरोना के 278 नये मामले सामने आए हैं, जबकि एक मौत दर्ज की गई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 31 हजार के पार पहुंच गई है। वहीं, प्रदेश में कोरोना से अब तक 858 लोगों की मौत हो चुकी है। इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने शुक्रवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा गुरुवार देर रात जारी की गई 1535 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट में 112 नये संक्रमित मिले हैं। वहीं, एक 50 वर्षीय महिला की कोरोना से मौत की पुष्टि हुई है। अब इंदौर में संक्रमितों की कुल संख्या 7328 और मृतकों की संख्या 311 हो गई है। वहीं, भोपाल सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी के अनुसार, राजधानी में शुक्रवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में कोरोना के 166 नये पॉजिटिव मिले हैं।इन 278 नये मामलों के साथ राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 30,968 से बढक़र 31,246 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 7328, भोपाल 6371, उज्जैन 1166, मुरैना 1567, ग्वालियर 2211, नीमच 673, जबलपुर 1144, सागर 660, बुरहानपुर 472, खंडवा 618, खरगौन 693, भिण्ड 451, देवास 426, धार 388, रतलाम 409, मंदसौर 398, बड़वानी 608, रायसेन 323, राजगढ़ 285, श्योपुर 242, बैतूल 220, शाजापुर 283, छिंदवाड़ा 164, रीवा 302, टीकमगढ़ 305, छतरपुर 318, विदिशा 289, पन्ना 91, दमोह 188, शिवपुरी 281, अशोकनगर 83, दतिया 213, हरदा 198, सतना 170, होशंगाबाद 181, बालाघाट 130, नरसिंहपुर 165, डिंडौरी 38, अनूपपुर 71, कटनी 142, गुना 71, शहडोल 77, सीहोर 256, झाबुआ 128, सीधी 87, सिंगरौली 88, आगरमालवा 83, सिवनी 41. निवाड़ी 42, उमरिया 44, अलीराजपुर 142 और मंडला 22 मरीज शामिल हैं।इंदौर में हुई एक मौत के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 858 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 311, भोपाल 169, उज्जैन 74, बुरहानपुर 24, खंडवा 19, जबलपुर 27, खरगौन 17, ग्वालियर 12, धार 10, मंदसौर 11, नीमच 09, सागर 32, देवास 10, रायसेन 07, होशंगाबाद 06, सतना 08, आगरमालवा 03, झाबुआ 03, अशोकनगर 02, शाजापुर 04, दतिया 04, छिंदवाड़ा 02, सीहोर 09, उमरिया 02, रतलाम 09, बड़वानी 08. मुरैना 09, राजगढ़ 09, श्योपुर 02, टीमकगढ़ 08, रीवा 03, गुना 04, हरदा 06, कटनी 03, सीधी 01, शिवपुरी 02, अलीराजपुर 01, भिंड 01, बैतूल 03, नरसिंहपुर 01, सिवनी 01, सिंगरौली 02, छतरपुर 07, विदिशा 02, दमोह 01 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है। हालांकि, अब तक यहां 21,657 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच चुके हैं। अब प्रदेश में सक्रिय प्रकरण 8500 के करीब हैं।

Dakhal News

Dakhal News 31 July 2020


sehore, Sand mafia ,mounted tractor, constable,CM

सीहोर। मध्यप्रदेश में शासन-प्रशासन द्वारा लगातार कार्रवाई करने के बाद भी रेत माफिया के हौसले पस्त नहीं हो रहे हैं। अब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के गृह जिले सीहोर में रेत माफिया द्वारा दबंगई का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि जिले के रेहटी थाना क्षेत्र में एक आरक्षक द्वारा अवैध रेत से भरा ट्रैक्टर रोकने की कोशिश की गई तो चालक ने रेत से भरा ट्रैक्टर आरक्षक पर चढ़ा दिया, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए। रेहटी थाना पुलिस के अनुसार, घटना गुरुवार देर रात की है। अवैध परिवहन की सूचना मिलने पर रेहटी थाने में पदस्थ आरक्षक धर्मेन्द्र यादव जहाजपुरा रेत खदान पर पहुंचे थे। यहां उन्होंने अवैध रेत से भरे एक ट्रैक्टर को रोकने का प्रयास किया। इस दौरान चालक ने आरक्षक धर्मेन्द्र यादव पर ही रेत से भरा ट्रैक्टर चढ़ा दिया। ट्रैक्टर की चपेट में आने से धर्मेन्द्र गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्होंने तत्काल थाने फोन कर पुलिस बल को मौके पर बुलाया। सूचना मिलते ही पुलिस बल मौके पर पहुंच गया और उन्हें रेहटी के अस्पताल पहुंचाया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें होशंगाबाद रैफर किया गया है।  प्रदेश के गृह मत्री नरोत्तम मिश्रा ने शुक्रवार को इस मामले की जानकारी देते हुए बताया कि घटना में आरक्षक के दोनों पैर में गंभीर चोटें आई हैं। उपचार के लिए उन्हें होशंगाबाद के निजी अस्पताल में भर्ती किया गया है, जहां उनका उपचार जारी है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने मौके से दो ट्रैक्टरों को जब्त किया है और एक युवक को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस मामले में अपनी कार्रवाई कर रही है।

Dakhal News

Dakhal News 31 July 2020


ujjain, Patwari ,red handed ,arrested ,taking bribe , five thousand rupees

उज्जैन। मध्यप्रदेश में कोरोना संकटकाल में भी भ्रष्टाचार चरम पर है। आए दिन अधिकारी-कर्मचारी रिश्वत लेते रंगेहाथों पकड़े जा रहे हैं। इसी क्रम में अब उज्जैन में एक पटवारी को पांच हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार किया गया है। बताया जा रहा है कि पटवारी ने एक किसान से जमीन की पावती बनाने के एवज में रिश्वत की मांग की थी। किसान की शिकायत पर लोकायुक्त पुलिस की टीम ने शुक्रवार को योजनाबद्ध तरीके के कार्रवाई को अंजाम दिया।उज्जैन लोकायुक्त पुलिस के अनुसार, ग्राम लिंबा पिपलिया निवासी किसान भूपेन्द्र चौधरी ने शिकायत की थी कि क्षेत्र का पटवारी दुष्यंत वर्मा जमीन की पावती बनाने के एवज में पांच हजार रुपये रिश्वत की मांग कर रहा है। शिकायत की पुष्टि होने के बाद डीएसपी वेदांत शर्मा की नेतृत्व में लोकायुक्त पुलिस की टीम ने फरियादी भूपेन्द्र चौधरी को पैसे लेकर पटवारी के पास भेजा और जैसे ही उसने पैसे दिये, उसी समय लोकायुक्त की टीम ने दबिश देकर उसे पांच हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार कर लिया। आरोपित पटवारी दुष्यंत वर्मा के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है और फिलहाल आगे की कार्रवाई जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 31 July 2020


jhabua, Bhil Panchayat verdict, woman rolled ,her husband, village

झाबुआ। प्रदेश के आदिवासी जिले झाबुआ में एक बार फिर भील पंचायत के फैसले से मानवीयता तार-तार हो गई। कोतवाली थाना अंतर्गत पारा पुलिस चौकी के गांव छापरी रणवास का गुरुवार को एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक महिला अपने पति को कंधे पर बैठाकर गांव के चक्कर लगा रही है। बताया गया है कि आदिवासी पंचायत द्वारा प्रेम प्रसंग के मामले में उसे यह सजा दी गई थी।   जानकारी के मुताबिक, महिला प्रेम प्रंसग के चलते अपने पति को छोड़कर किसी अन्य युवक के साथ चली गयी थी, लेकिन जब परिजन उसे वापस लाये तो महिला के सुसराल छापरी गांव में गत दिवस भील पंचायत बुलाई गयी। पंचायत ने महिला को मानवीयता को तार तार करने वाली सजा दे दी। महिला केा अपने पति को कंधे पर बैठाकर पूरे गांव में घुमाया। इतना ही नहीं, भीड के कुछ लोगों के हाथ मे डण्डे भी थे और जब भी महिला रुकती, उसे पीछे से डण्डे भी मारे जा रहे थे। वीडियो में यह नजारा साफ-साफ देखा जा रहा है। बुधवार को ही महिला कोतवाली थाना पहुंची और प्रकरण दर्ज कराया। महिला की शिकायत पर पुलिस ने पति समेत सात लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी के प्रयास शुरू कर दिये हैं।   कोतवाली थाना प्रभारी सुरेन्द्र सिह गाडरीया ने बताया कि महिला की शिकायत पर आईपीसी की धारा 354, 355, 147, 149, 294, 506 के अतर्गत मामला दर्ज किया गया है, जिनमें महिला के पति बदिया पुत्र लालु सिंगाड, दितू पुत्र भूरू सिंगाड, झीतरा पुत्र जामसिह भाभर, भूरू पुत्र गुला सिंगाड, धनीबाई पत्नी कालिया को आरोपित बनाया गया है।   पूर्व मे हो चुकी है इस प्रकार की  घटना झाबुआ मे जिले मे यह पहली घटना नहीं हैष इसके पहले 6 जुलाई को कालीदेवी थाने के अंतर्गत आने वाले अमरकोट गांव मे इस प्रकार का ममला हुआ था, जहां पर युवक ओर यवती की प्रेम प्रंसग के चलते पिटाई की गयी थी इसके पूर्व कल्याणपुरा थाने के अंतर्गत भी महिला को अपने पति को कंधे पर बैठा कर घुमाने  की सजा दी जा चुकी है।

Dakhal News

Dakhal News 30 July 2020


bhopal, 846 people died ,corona , MP, 302 new cases ,found ,two districts

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। यहां अब दो जिलों में कोरोना के 302 नये मामले सामने आए हैं जबकि दो लोगों की मौत भी हुई है। इसके बाद राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 30 हजार 436 हो गई है। प्रदेश में कोरोना से अब तक 846 लोगों की मौत हो चुकी है। राजधानी भोपाल में लगातार दूसरे दिन कोरोना विस्फोट हुआ है। बुधवार को यहां सर्वाधिक 246 नये मामले सामने आए थे। अब यहां 218 नये संक्रमित मिले हैं। भोपाल सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी के अनुसार गुरुवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में 218 पॉजिटिव पाए गए हैं। इसके बाद भोपाल में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 6326 हो गई है। इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने गुरुवार को बताया कि बुधवार देर रात जारी की गई 889 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट में 84 नये पॉजिटिव मिले हैं, जबकि दो लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। इसके बाद इंदौर में संक्रमितों की कुल संख्या 7216 और मृतकों की संख्या 310 हो गई है।भोपाल-इंदौर में मिले 302 नये मामलों के साथ अब प्रदेश में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 30,436 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 7216, भोपाल 6326, उज्जैन 1154, मुरैना 1555, ग्वालियर 2167, नीमच 659, जबलपुर 1097, सागर 644, बुरहानपुर 469, खंडवा 605, खरगौन 691, भिण्ड 446, देवास 425, धार 372, रतलाम 388, मंदसौर 394, बड़वानी 535, रायसेन 310, राजगढ़ 273, श्योपुर 240, बैतूल 218, शाजापुर 281, छिंदवाड़ा 146, रीवा 277, टीकमगढ़ 301, छतरपुर 312, विदिशा 286, पन्ना 89, दमोह 182, शिवपुरी 279, अशोकनगर 83, दतिया 205, हरदा 191, सतना 152, होशंगाबाद 173, बालाघाट 114, नरसिंहपुर 148, डिंडौरी 36, अनूपपुर 71, कटनी 140, गुना 67, शहडोल 75, सीहोर 229, झाबुआ 124, सीधी 87, सिंगरौली 85, आगरमालवा 80, सिवनी 40. निवाड़ी 38, उमरिया 40, अलीराजपुर 136 और मंडला 21 मरीज शामिल हैं।इंदौर में हुई दो लोगों की मौत के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 846 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 310, भोपाल 164, उज्जैन 74, बुरहानपुर 23, खंडवा 19, जबलपुर 27, खरगौन 17, ग्वालियर 12, धार 10, मंदसौर 11, नीमच 09, सागर 32, देवास 10, रायसेन 07, होशंगाबाद 06, सतना 07, आगरमालवा 03, झाबुआ 03, अशोकनगर 02, शाजापुर 04, दतिया 03, छिंदवाड़ा 02, सीहोर 08, उमरिया 02, रतलाम 09, बड़वानी 08. मुरैना 09, राजगढ़ 09, श्योपुर 02, टीमकगढ़ 08, रीवा 03, गुना 04, हरदा 06, कटनी 03, सीधी 01, शिवपुरी 02, अलीराजपुर 01, भिंड 01, बैतूल 03, नरसिंहपुर 01, सिवनी 01, सिंगरौली 02, छतरपुर 06, विदिशा 01, दमोह 01 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है। हालांकि, राज्य में अब तक 21 हजार मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच चुके हैं। अब यहां सक्रिय मरीज साढ़ आठ हजार के करीब हैं।

Dakhal News

Dakhal News 30 July 2020


Mandla, Four dead , collision between ,mini truck , pickup vehicle

मंडला। मध्य प्रदेश के मंडला जिला मुख्यालय से करीब 50 किलोमीटर बिछिया थाना क्षेत्र अंतर्गत राष्ट्रीय राजमार्ग 30 पर हनुमान नाला के पास गुरुवार सुबह पिकअप वाहन और मिनी ट्रक के बीच जोरदार टक्कर हो गई। इस हादसे में वाहन में सवार चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू की।बिछिया थाना पुलिस के अनुसार मंडला-जबलपुर रोड पर गुरुवार सुबह एक पिकअप वाहन और मिनी ट्रक  के बीच हुई दुर्घटना में चार लोगों की मौत हो गई। हादसा इतना भीषण था की पिकअप वैन के परखच्चे उड़ गए। मृतकों में तीन लोग पिकअप वाहन में सवार थे जबकि मिनी ट्रक में सवार एक व्यक्ति की मौत हुई है। राहगीरों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और पुलिस ने जेसीबी की मदद से वाहनों को अलग कर मृतकों के शव बाहर निकाला। पुलिस ने चारों शवों को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल पहुंचाया और मामले की जांच शुरू की।मंडला एसपी दीपक शुक्ला के अनुसार मिनी ट्रक रायपुर की ओर से लोहे के एंगल लेकर आ जबलपुर की ओर जा रहा था जबकि जबकि पिकअप वैन मंडला की ओर आ रही थी। इसी बीच दोनों वाहनों के बीच आमने-सामने की टक्कर हो गई। फिलहाल मृतकों की शिनाख्त नहीं हो पाई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Dakhal News

Dakhal News 30 July 2020


bhopal, Lockdown , ineffective ,now 246 new cases, found

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए 10 दिन का लॉकडाउन लगाया गया है। बुधवार को लॉकडाउन का पांचवां दिन है और शहर के सभी बाजार पूरी तरह बंद हैं तथा जगह-जगह पुलिस बल तैनात कर शहर की सीमाएं सील कर दी गई हैं। इसके बावजूद यहां कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब यहां रिकॉर्ड 246 नये संक्रमित मिले हैं। यह संख्या अब तक की एक दिन में सर्वाधिक है। इससे पहले यहां एक दिन में सर्वाधिक 215 मरीज मिले थे। इतने अधिक मामले सामने आने से यहां लॉकडाउन भी बेअसर साबित हो रहा है।बता दें कि भोपाल में बीते 10 दिन से रोजाना 200 के आसपास नये संक्रमित मिल रहे हैं, लेकिन बुधवार को यहां पिछले सारे रिकॉर्ड टूट गए। सीएमचएचओ कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक बुधवार सुबह प्राप्त हुई रिपोर्ट में कोरोना के 246 नये मरीज मिले हैं। इसके साथ ही अब जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 6108 हो गई है। वहीं, भोपाल में कोरोना से चार लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। इसके बाद यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 164 हो गई है। हालांकि, भोपाल में अब तक 3747 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 2197 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है। भोपाल में शासन-प्रशासन ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए 10 दिन का लॉकडाउन लगाया है, लेकिन बुधवार को लॉकडाउन के पांचवें दिन यहां कोरोना से सारे पुराने रिकार्ड तोड़ दिये। यहां एक दिन में सर्वाधिक 246 नये मामले सामने आए हैं। इनमें शहीद नगर कालोनी से 7 लोग, ऋषि नगर चार इमली से 6 लोग, राजदेव कॉलोनी नीयर एकता पार्क एक ही परिवार से 3 लोग, ईएमई सेंटर से दो, एमएलए रेस्ट हाउस से तीन, कृष्णा नगर कालोनी करोंद से 4 लोग, अरेरा कालोनी से एक ही परिवार के 3 लोग, अरेरा कालोनी के अलग अलग घरों से 4 लोग, लहारपुर से तीन, प्रोफेसर कॉलोनी से एक, जहांगीराबाद से 2 लोगों के अलावा बीएमएचआरसी और जीएमसी के चिकित्सकों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है।

Dakhal News

Dakhal News 29 July 2020


bhopal, People busy, preparation , Rakshabandhan, crowds thronging , markets

भोपाल। बहन-भाई का पवित्र त्योहार रक्षाबंधन आगामी तीन अगस्त को मनाया जाएगा। भोपाल में 10 दिन का लॉकडाउन लगाया गया है, इसलिए यहां बाजार पूरी तरह बंद हैं और बेवजह घर से बाहर निकलने वालों पर पुलिस सख्ती कर रही है, लेकिन प्रदेश के अन्य शहरों में लोग जमकर खरीदारी कर रहे हैं। रक्षाबंधन के लिए बाजारों में खरीदारों की अच्छी खासी भीड़ नजर आ रही है। भोपाल को छोडक़र प्रदेशभर में रक्षाबंधन की तैयारियों जोर-शोर से शुरू हो गई हैं।मध्यप्रदेश में कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए भोपाल में लॉकडाउन किया गया है, जो कि तीन अगस्त तक जारी रहेगा। इसलिए यहां रक्षाबंधन का पर्व फीका रहने की उम्मीद है। वहीं, अन्य शहरों में भी कोरोना संक्रमण के चलते बाजारों में कब ताले लग जाएं, इसे लेकर असमंजस की स्थिति है। इसीलिए लॉकडाउन लगने से पहले ही लोग रक्षाबंधन की तैयारियां पूरी कर लेना चाहते हैं। लॉकडाउन लगने के डर से नए व और राखी व जरूरी सामान खरीदने से वंचित न रह जाएं, इसे देखते हुए सुबह से ही लोग खरीदारी करने के लिए बाजारों में पहुंच रहे हैं। भाई की कलाई पर सुंदर राखी बांधने के लिए बहनें मनपसंद राखियां खरीद रही हैं तो वहीं ज्वेलर्स की दुकानों पर सोने-चांदी की राखियां रखी हुई हैं, लेकिन इनकी खरीदारी कम मात्रा में हो रही है। संक्रमण के चलते पिछले चार माह से बाजारों के शटर बंद रहे, जिससे अर्थव्यवस्था भी बिगड़ी हुई है। अब रखाबंधन के चलते बाजारों में लोग खरीदारी करने पहुंच रहे हैं। सबसे ज्यादा बहनों की भीड़ नजर आ रही है और राखी के दौरान किसी भी चीज के लिए परेशान नहीं होना पड़े, इसे देखते हुए सुबह से लेकर शाम तक खरीदारी करते हुए जेब ढीली कर रही हैं। भाई की कलाई सुंदर दिखे इसके लिए घंटों दुकानों पर खड़े होकर राखी पसंद कर रही हैं। बाजार में मंगलवार को खरीदारों की भीड़ लगना शुरु हो गई।   दुकानदारों के मुताबिक अच्छा कारोबार होने की उम्मीद बनी हुई है। बहनें अपने भाई की कलाई पर राखी बांधने के लिए मोतियों व ब्रासलेट को ज्यादा पसंद कर रही हैं तो बच्चों के लिए टेडीवियर की राखी खरीद रही हैं। कई बहनें अपने भाई की कलाई पर सोने और चांदी की राखी बांधने के लिए ज्वेलर्सों की दुकानों पर खरीदारी करती नजर आ रही हैं। इसलिए भी लग रही है भीड़सावन शुरू होते ही त्योहारों की झड़ी शुरू हो गई है और तीन अगस्त को जहां रक्षा बंधन का त्योहार मनाया जाएगा। वहीं उससे पहले ईद भी आ रही है। ईद पर नए कपड़े पहनने के लिए मुस्लिम समाज के लोग खरीदारी करते हुए नजर आ रहे हैं। प्रशासन द्वारा एक अगस्त को बाजारों को बंद रखने का आदेश दिया गया है। सिर्फ किराना, राखी और मिठाइयों की दुकानें खोलने के लिए कहा गया है। रक्षाबंधन के दो दिन पहले कपड़े से लेकर जनरल स्टोर, श्रृंगार का सामान और जूते चप्पलों की दुकानें बंद रहेंगी, जिसके चलते वह अभी से ही खरीदारी कर रहे हैं। भाई-बहन का पवित्र त्योहार रक्षाबंधन 3 अगस्त को मनाया जाएगा, जिसके चलते बाजारों में खरीदारों की भीड़ लगी हुई है। रेडीमेड कपड़ों को खरीदने के लिए मार्केटों में पहुंचकर ग्राहक खरीदारी कर रहे हैं। मौसम के अनुसार परिधानों को भी युवा प्राथमिकता दे रहे हैं। युवा सबसे ज्यादा जींस और रेडीमेड शर्ट व टीशर्ट पसंद कर रहे हैं। युवतियां सलवार सूट को दरकिनारा कर लैगी, कुर्ती पसंद कर रहीहैं। कॉलेज और स्कूलों मे पढऩे वाली युवतियां जीन्स व शॉर्ट शर्ट को प्राथमिकता दे रही हैं। महिलाएं मनपसंद साडिय़ां खरीदने के लिए दुकानों पर बैठकर साडिय़ों को पसंद कर रहीं हैं तो वहीं सलवार सूट की भी खरीदारी हो रही है।

Dakhal News

Dakhal News 29 July 2020


bhopal, People busy, preparation , Rakshabandhan, crowds thronging , markets

भोपाल। बहन-भाई का पवित्र त्योहार रक्षाबंधन आगामी तीन अगस्त को मनाया जाएगा। भोपाल में 10 दिन का लॉकडाउन लगाया गया है, इसलिए यहां बाजार पूरी तरह बंद हैं और बेवजह घर से बाहर निकलने वालों पर पुलिस सख्ती कर रही है, लेकिन प्रदेश के अन्य शहरों में लोग जमकर खरीदारी कर रहे हैं। रक्षाबंधन के लिए बाजारों में खरीदारों की अच्छी खासी भीड़ नजर आ रही है। भोपाल को छोडक़र प्रदेशभर में रक्षाबंधन की तैयारियों जोर-शोर से शुरू हो गई हैं।मध्यप्रदेश में कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए भोपाल में लॉकडाउन किया गया है, जो कि तीन अगस्त तक जारी रहेगा। इसलिए यहां रक्षाबंधन का पर्व फीका रहने की उम्मीद है। वहीं, अन्य शहरों में भी कोरोना संक्रमण के चलते बाजारों में कब ताले लग जाएं, इसे लेकर असमंजस की स्थिति है। इसीलिए लॉकडाउन लगने से पहले ही लोग रक्षाबंधन की तैयारियां पूरी कर लेना चाहते हैं। लॉकडाउन लगने के डर से नए व और राखी व जरूरी सामान खरीदने से वंचित न रह जाएं, इसे देखते हुए सुबह से ही लोग खरीदारी करने के लिए बाजारों में पहुंच रहे हैं। भाई की कलाई पर सुंदर राखी बांधने के लिए बहनें मनपसंद राखियां खरीद रही हैं तो वहीं ज्वेलर्स की दुकानों पर सोने-चांदी की राखियां रखी हुई हैं, लेकिन इनकी खरीदारी कम मात्रा में हो रही है। संक्रमण के चलते पिछले चार माह से बाजारों के शटर बंद रहे, जिससे अर्थव्यवस्था भी बिगड़ी हुई है। अब रखाबंधन के चलते बाजारों में लोग खरीदारी करने पहुंच रहे हैं। सबसे ज्यादा बहनों की भीड़ नजर आ रही है और राखी के दौरान किसी भी चीज के लिए परेशान नहीं होना पड़े, इसे देखते हुए सुबह से लेकर शाम तक खरीदारी करते हुए जेब ढीली कर रही हैं। भाई की कलाई सुंदर दिखे इसके लिए घंटों दुकानों पर खड़े होकर राखी पसंद कर रही हैं। बाजार में मंगलवार को खरीदारों की भीड़ लगना शुरु हो गई।   दुकानदारों के मुताबिक अच्छा कारोबार होने की उम्मीद बनी हुई है। बहनें अपने भाई की कलाई पर राखी बांधने के लिए मोतियों व ब्रासलेट को ज्यादा पसंद कर रही हैं तो बच्चों के लिए टेडीवियर की राखी खरीद रही हैं। कई बहनें अपने भाई की कलाई पर सोने और चांदी की राखी बांधने के लिए ज्वेलर्सों की दुकानों पर खरीदारी करती नजर आ रही हैं। इसलिए भी लग रही है भीड़सावन शुरू होते ही त्योहारों की झड़ी शुरू हो गई है और तीन अगस्त को जहां रक्षा बंधन का त्योहार मनाया जाएगा। वहीं उससे पहले ईद भी आ रही है। ईद पर नए कपड़े पहनने के लिए मुस्लिम समाज के लोग खरीदारी करते हुए नजर आ रहे हैं। प्रशासन द्वारा एक अगस्त को बाजारों को बंद रखने का आदेश दिया गया है। सिर्फ किराना, राखी और मिठाइयों की दुकानें खोलने के लिए कहा गया है। रक्षाबंधन के दो दिन पहले कपड़े से लेकर जनरल स्टोर, श्रृंगार का सामान और जूते चप्पलों की दुकानें बंद रहेंगी, जिसके चलते वह अभी से ही खरीदारी कर रहे हैं। भाई-बहन का पवित्र त्योहार रक्षाबंधन 3 अगस्त को मनाया जाएगा, जिसके चलते बाजारों में खरीदारों की भीड़ लगी हुई है। रेडीमेड कपड़ों को खरीदने के लिए मार्केटों में पहुंचकर ग्राहक खरीदारी कर रहे हैं। मौसम के अनुसार परिधानों को भी युवा प्राथमिकता दे रहे हैं। युवा सबसे ज्यादा जींस और रेडीमेड शर्ट व टीशर्ट पसंद कर रहे हैं। युवतियां सलवार सूट को दरकिनारा कर लैगी, कुर्ती पसंद कर रहीहैं। कॉलेज और स्कूलों मे पढऩे वाली युवतियां जीन्स व शॉर्ट शर्ट को प्राथमिकता दे रही हैं। महिलाएं मनपसंद साडिय़ां खरीदने के लिए दुकानों पर बैठकर साडिय़ों को पसंद कर रहीं हैं तो वहीं सलवार सूट की भी खरीदारी हो रही है।

Dakhal News

Dakhal News 29 July 2020


bhopal, 823 people died,corona , MP, 304 new cases found, three districts

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। अब यहां तीन जिलों में 304 नये मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हुई है। इसके बाद राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 28 हजार 893 हो गई है। वहीं, प्रदेश में कोरोना से अब तक 823 लोगों की मौत हो चुकी है। इधर, लगातार अधिक संख्या में नये मामले सामने आने से सक्रिय मरीजों की संख्या भी तेजी से बढ़ते हुए आठ हजार के पार पहुंच गई है।इंदौर की प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गाडरिया ने मंगलवार को बताया एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा सोमवार देर रात जारी की गई 1209 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट में 73 नये पॉजिटिव मिले हैं, जबकि दो लोगों की मौत की पुष्टि  हुई है। इसके बाद इंदौर में संक्रमितों की कुल संख्या 7058 और मृतकों की संख्या 306 हो गई है। वहीं, भोपाल सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी के अनुसार मंगलवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में राजधानी में 199 नये संक्रमित मिले हैं, जबकि एक व्यक्ति की मौत की पुष्टि हुई है। इसके अलावा कटनी में 32 नये मामले सामने आए हैं।इन 304 नये मामलों के साथ अब राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या 28,893 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 7058, भोपाल 5872, उज्जैन 1133, मुरैना 1519, ग्वालियर 2037, नीमच 630, जबलपुर 1033, सागर 621, बुरहानपुर 464, खंडवा 582, खरगौन 666, भिण्ड 431, देवास 415, धार 355, रतलाम 369, मंदसौर 385, बड़वानी 401, रायसेन 296, राजगढ़ 231, श्योपुर 220, बैतूल 209, शाजापुर 277, छिंदवाड़ा 114, रीवा 220, टीकमगढ़ 300, छतरपुर 255, विदिशा 268, पन्ना 88, दमोह 154, शिवपुरी 266, अशोकनगर 80, दतिया 205, हरदा 183, सतना 118, होशंगाबाद 154, बालाघाट 106, नरसिंहपुर 145, डिंडौरी 36, अनूपपुर 69, कटनी 147, गुना 65, शहडोल 65, सीहोर 201, झाबुआ 121, सीधी 78, सिंगरौली 83, आगरमालवा 78, सिवनी 39. निवाड़ी 38, उमरिया 36, अलीराजपुर 126 और मंडला 21 मरीज शामिल हैं। इंदौर-भोपाल में हुई तीन मौतों के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 823 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 306, भोपाल 160, उज्जैन 72, बुरहानपुर 23, खंडवा 19, जबलपुर 26, खरगौन 17, ग्वालियर 11, धार 10, मंदसौर 11, नीमच 09, सागर 32, देवास 10, रायसेन 07, होशंगाबाद 05, सतना 07, आगरमालवा 03, झाबुआ 03, अशोकनगर 02, शाजापुर 04, दतिया 03, छिंदवाड़ा 02, सीहोर 06, उमरिया 01, रतलाम 07, बड़वानी 07. मुरैना 09, राजगढ़ 09, श्योपुर 02, टीमकगढ़ 07, रीवा 03, गुना 04, हरदा 06, कटनी 03, सीधी 01, शिवपुरी 02, अलीराजपुर 01, भिंड 01, बैतूल 03, नरसिंहपुर 01, सिवनी 01, सिंगरौली 02, छतरपुर 03, विदिशा 01, दमोह 01 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है। हालांकि, राज्य में अब तक 19,791 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच चुके हैं। अब यहां सक्रिय प्रकरण 8293 हैं।

Dakhal News

Dakhal News 28 July 2020


bhopal, Number of infected , MP crosses, 28 thousand, 352 new cases found

भोपाल। मध्यप्रदेश में तमाम प्रयासों के बावजूद कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। अब यहां चार जिलों में कोरोना के 352 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद प्रदेश में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 28 हजार के पार पहुंच गई है। वहीं राज्य में अब तक कोरोना से 811 लोगों की मौत हो चुकी है। इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ पूर्णिमा गाडरिया ने सोमवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा रविवार देर रात जारी की गई 1445 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट में 127 नये संक्रमित मिले हैं। इसके बाद यहां संक्रमितों की कुल संख्या 6985 हो गई है। वहीं भोपाल सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी के अनुसार, सोमवार को प्राप्त रिपोर्ट में राजधानी में 177 नये मामले सामने आए हैं। इनमें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की दूसरी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। इसके अलावा दमोह में 32 और सीहोर में 16 नये पॉजिटिव मिले हैं।इन 352 नये मामलों के साथ अब राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 28,152 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 6985, भोपाल 5491, उज्जैन 1115, मुरैना 1500, ग्वालियर 1978, नीमच 608, जबलपुर 1005, सागर 609, बुरहानपुर 459, खंडवा 570, खरगौन 646, भिण्ड 428, देवास 412, धार 349, रतलाम 360, मंदसौर 368, बड़वानी 374, रायसेन 284, राजगढ़ 225, श्योपुर 216, बैतूल 199, शाजापुर 273, छिंदवाड़ा 114, रीवा 211, टीकमगढ़ 280, छतरपुर 253, विदिशा 262, पन्ना 87, दमोह 155, शिवपुरी 266, अशोकनगर 80, दतिया 197, हरदा 177, सतना 112, होशंगाबाद 147, बालाघाट 99, नरसिंहपुर 137, डिंडौरी 34, अनूपपुर 69, कटनी 110, गुना 62, शहडोल 65, सीहोर 196, झाबुआ 120, सीधी 72, सिंगरौली 78, आगरमालवा 76, सिवनी 34. निवाड़ी 32, उमरिया 36, अलीराजपुर 116 और मंडला 21 मरीज शामिल हैं। वहीं, राज्य में कोरोना से अब तक 811 लोगों की मौत हुई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 304, भोपाल 158, उज्जैन 72, बुरहानपुर 23, खंडवा 19, जबलपुर 24, खरगौन 17, ग्वालियर 10, धार 10, मंदसौर 11, नीमच 09, सागर 32, देवास 10, रायसेन 07, होशंगाबाद 05, सतना 07, आगरमालवा 03, झाबुआ 03, अशोकनगर 01, शाजापुर 04, दतिया 03, छिंदवाड़ा 02, सीहोर 06, उमरिया 01, रतलाम 07, बड़वानी 06. मुरैना 09, राजगढ़ 09, श्योपुर 02, टीमकगढ़ 07, रीवा 01, गुना 04, हरदा 06, कटनी 03, सीधी 01, शिवपुरी 02, अलीराजपुर 01, भिंड 01, बैतूल 03, नरसिंहपुर 01, सिवनी 01, सिंगरौली 01, छतरपुर 03, विदिशा 01, दमोह 01 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है। हालांकि, यहां अब तक 19,132 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं, लेकिन तेजी से नये मरीज सामने आने से राज्य में सक्रिय मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। यहां अब सक्रिय मरीज आठ हजार के पार पहुंच गए हैं।

Dakhal News

Dakhal News 27 July 2020


Ujjain, sent Mahakala-Omkareshwar soil , Shipra water , Ayodhya

उज्जैन। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मुख्य आतिथ्य में आगामी पांच अगस्त को भगवान श्रीराम की जन्मभूमि अयोध्या में भव्य राममंदिर निर्माण के लिए भूमिपूजन होगा। इस भूमिपूजन में मध्य प्रदेश के दोनों ज्योतिर्लिंग भगवान महाकालेश्वर और ओंकारेश्व की मिट्टी के साथ ही शिप्रा के जल का भी उपयोग होगा। इसके लिए सोमवार को विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने बाबा महाकाल और ओंकारेश्वर मंदिर की मिट्टी तथा शिप्रा नदी का जल अयोध्या भेजा है।विहिप के मालवा प्रांत के अध्यक्ष कांतिभाई पटेल ने बताया कि सोमवार सुबह करीब साढ़े 10 बजे महाकाल व ओंकारेश्वर मंदिर की मिट्टी और शिप्रा के जल का पूजन किया गया और इसके बाद राममंदिर भूमिपूजन के लिए उसे अयोध्या भेजा गया। इसके अलावा महानिर्वाणी अखाड़े की ओर से बाबा महाकाल को चढ़ाने वाली भस्म के भी अयोध्या भेजी गई है।मालवा प्रांत अध्यक्ष पटेल ने बताया कि आगामी पांच अगस्त को अयोध्या में भव्य राममंदिर निर्माण के लिए आधारशिला रखी जाएगी, जिसमें देशभर के तीर्थ क्षेत्रों की मिट्टी और पवित्र नदियों के जल का उपयोग भूमिपूजन में होगा। कुछ दिन पहले केन्द्रीय समिति द्वारा ज्योतिर्लिंग महाकाल और ओंकारेश्वर का मिट्टी तथा शिप्रा का जल भेजने के लिए कहा गया था। हमने सोमवार को दोनों मंदिरों की मिट्टी और जल एकत्र कर अयोध्या भेज दिया है।

Dakhal News

Dakhal News 27 July 2020


bhopal, Ban meeting ,prisoners ,31 August, sisters ,tie rakhi , jailed brothers

भोपाल। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए लागू गाइडलाइन के अनुसार जेल विभाग द्वारा प्रदेश की सभी जेलों में खुली मुलाकात पर रोक लगा दी है। जेल प्रशासन ने इस संबंध में सभी जेल पदाधिकारियों को एक पत्र लिखकर आदेश जारी किया है कि  31 अगस्त तक किसी भी कैदी से मुलाकात नहीं हो पाएगी। यानी, रक्षाबंधन पर्व पर भी कैदियों से उनके परिजन नहीं मिल पाएंगे और इस बार कोरोना के चलते जेल में बंद कैदियों को उनकी बहनें राखी नहीं बांध पाएंगी। दरअसल, रक्षाबंधन के दिन हर साल जेल में कैदियों की बहनें बड़ी संख्या में जेल पहुंचती थीं और उन्हें राखी बांधकर मुंह मीठा कराती थीं, लेकिन इस बार कैदियों की कलाइयां सूनी ही रह जाएंगी। जेल अधीक्षक जीएल बेटी ने बताया कि जेल मुख्यालय से आदेश जारी किया गया है, जिसमें कहा गया है कि जेल में कैदियों से उनके परिजनों की मुलाकात पर आगामी 31 अगस्त तक पाबंदी लगाई गई है। उन्होंने बताया कि कोरोना के चलते यह व्यवस्था की गई है। हालांकि, कोरोना के चलते अधिकांश कैदियों को पेरोल पर छोड़ा गया है, वे अपने घरों में रक्षाबंधन का पर्व मना सकेंगे, लेकिन जो बाकी कैदी जेल में बंद हैं, उन्हें रक्षाबंधन पर अपनी बहनों से मिलने की छूट नहीं दी जाएगी।

Dakhal News

Dakhal News 27 July 2020


bhopal, Ban meeting ,prisoners ,31 August, sisters ,tie rakhi , jailed brothers

भोपाल। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए लागू गाइडलाइन के अनुसार जेल विभाग द्वारा प्रदेश की सभी जेलों में खुली मुलाकात पर रोक लगा दी है। जेल प्रशासन ने इस संबंध में सभी जेल पदाधिकारियों को एक पत्र लिखकर आदेश जारी किया है कि  31 अगस्त तक किसी भी कैदी से मुलाकात नहीं हो पाएगी। यानी, रक्षाबंधन पर्व पर भी कैदियों से उनके परिजन नहीं मिल पाएंगे और इस बार कोरोना के चलते जेल में बंद कैदियों को उनकी बहनें राखी नहीं बांध पाएंगी। दरअसल, रक्षाबंधन के दिन हर साल जेल में कैदियों की बहनें बड़ी संख्या में जेल पहुंचती थीं और उन्हें राखी बांधकर मुंह मीठा कराती थीं, लेकिन इस बार कैदियों की कलाइयां सूनी ही रह जाएंगी। जेल अधीक्षक जीएल बेटी ने बताया कि जेल मुख्यालय से आदेश जारी किया गया है, जिसमें कहा गया है कि जेल में कैदियों से उनके परिजनों की मुलाकात पर आगामी 31 अगस्त तक पाबंदी लगाई गई है। उन्होंने बताया कि कोरोना के चलते यह व्यवस्था की गई है। हालांकि, कोरोना के चलते अधिकांश कैदियों को पेरोल पर छोड़ा गया है, वे अपने घरों में रक्षाबंधन का पर्व मना सकेंगे, लेकिन जो बाकी कैदी जेल में बंद हैं, उन्हें रक्षाबंधन पर अपनी बहनों से मिलने की छूट नहीं दी जाएगी।

Dakhal News

Dakhal News 27 July 2020


Tikamgarh, Indecency , revenue staff reached , demarcate land

टीकमगढ़। टीकमगढ़ जिले के एक गांव में जमीन का सीमांकन करने पहुंचे राजस्व अमले के साथ ग्रामीणों द्वारा अभद्रता करने का मामला सामने आया है। जिले के बल्देवगढ़ तहसील क्षेत्र अंतर्गत ग्राम केलपुरा में राजस्व निरीक्षक कौशलेन्द्र सिंह विभागीय अमले और पुलिस बल के साथ जमीन सीमांकन की कार्रवाई करने के लिए पहुंचे  थे। ग्रामीणों ने इस कार्रवाई का विरोध किया। बताया गया है कि ग्रामीणों ने राजस्व निरीक्षक और पटवारी का गिरेबान पकड़ लिया और महिलाओं ने उनके साथ झूमाझटकी की। मौके पर पुलिस बल भी मौजूद था, लेकिन ग्रामीणों के सामने उनकी एक न चली और उन्हें खाली हाथ वापस लौटना पड़ा। तहसीलदार कमलेश कुशवाह ने शुक्रवार को देर रात बल्देवगढ़ थाने पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई। उन्होंने पुलिस को बताया कि तहसीलदार के आदेश पर राजस्व विभाग का अमला शुक्रवार को केलपुरा गांव में चांद मोहम्मद की जमीन का खसरा नम्बर 1169 पर सीमांकन करने के लिए पहुंचे थे। इसी दौरान गांव के रमेश, छक्की लाल, माखनलाल सहित 25-30 महिलाएं आ गईं और उन्होंने आकर न केवल सीमांकन करने से रोका, बल्कि राजस्व निरीक्षक कौशलेंद्र सिंह और पटवारी मुकेश कुशवाहा को दौड़ाया। साथ ही कॉलर भी पकड़ी। पुलिस बल की मौजूदगी में यह पूरी घटना होती रही। फिलहाल पुलिस ने तहसीलदार की शिकायत पर प्रकरण दर्ज कर लिया है और मामले को जांच लिया है।टीकमगढ़ के पुलिस अधीक्षक प्रशांत खरे का कहना है कि मामले में शासकीय कार्य मे बाधा डालने का मामला दर्ज किया गया है। बल्देवगढ़ थाना प्रभारी बैजनाथ शर्मा को कार्रवाई के निर्देश दे दिए गए हैं। आरोपितों के खिलाफ जल्द कार्रवाई की जाएगी।

Dakhal News

Dakhal News 25 July 2020


indore, 153 new ,corona cases, found again, 303 dead

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। यहां संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। अब यहां कोरोना के 153 नये मामले सामने आए हैं, जबकि एक व्यक्ति की मौत भी हुई है। इसके बाद जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 6709 है। वहीं, इंदौर में कोरोना से अब तक 303 लोगों की मौत हो चुकी है।इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने शनिवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा शुक्रवार देर रात 1587 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 153 रिपोर्ट पॉजिटिव और शेष 1399 रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन 153 नये संक्रमित मरीजों के मिलने के बाद जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 6709 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से एक व्यक्ति की मौत की पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 303 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह बताई गई है कि इंदौर में अब तक 4604 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 1800 के आसपास है। बता दें कि इंदौर में एक सप्ताह पहले संक्रिय मरीजों की संख्या 900 के करीब थी। यहां एक सप्ताह से लगातार सौ से अधिक नये मामले सामने आने से सक्रिय मरीजों की संख्या दो गुनी हो गई है।

Dakhal News

Dakhal News 25 July 2020


ujjain, Government worship, Lord Nagachandeshwara, performed , Nagpanchami

उज्जैन। उज्जैन स्थित विश्व प्रसिद्ध ज्योतिर्लिंग भगवान महाकालेश्वर मंदिर में नागपंचमी का पर्व परम्परानुसार मनाया गया। नागपंचमी के अवसर पर यहां भगवान नागचन्द्रेश्वर की परम्परा अनुसार शासकीय पूजा की गई। महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति के अध्यक्ष एवं उज्जैन कलेक्टर आशीष सिंह द्वारा दोपहर में यह विशेष पूजा की गई। निर्वाड़ी अखाड़े के महंत विनित गिरी महाराज द्वारा पूजन संपन्न कराया गया। पूजन में संभागायुक्त आनन्द कुमार शर्मा, आईजी राकेश गुप्ता, पुलिस अधीक्षक मनोज सिंह, प्रशासक एसएस रावत शामिल हुए और भगवान नागचंद्रेश्वर का पूजन-अर्चन किया।बता दें कि महाकालेश्वर मंदिर के द्वितीय तल पर स्थित भगवान नागचंद्रेश्वर मंदिर के पट नागपंचमी के अवसर पर साल में एक बार 24 घंटे के लिए खुलते हैं। इस बार भी मंदिर के पट शुक्रवार को मध्यरात्रि को 12 बजे शुभ मुहूर्त में खोले गए। इसके बाद रात्रि में ही महंत विनित गिरी महाराज ने विधि विधान से भगवान नागचंद्रेश्वर का पूजन-अर्चन किया। इस अवसर पर महाकाल मंदिर प्रशासक एसएस रावत मौजूद थे। फिर शनिवार को दोपहर में भगवान नागचंद्रेश्वर की शासकीय पूजा संपन्न हुई। इस बार कोरोना को देखते हुए मंदिर में श्रद्धालुओं का प्रवेश प्रतिबंधित रखा गया है और उन्हें ऑनलाइन माध्यम से भगवान नागचंद्रेश्वर के दर्शन कराये जा रहे हैं।

Dakhal News

Dakhal News 25 July 2020


singroli, Two dead, three injured, lightning

सिंगरौली। मध्य प्रदेश के कई जिलों में बारिश का कहर देखने को मिल रहा है। तेज बरसात के साथ गरज चमक के साथ तेज बिजली भी गिर रही है। ऐसे में सिंगरौली जिले में शुक्रवार सुबह आकाशीय बिजली गिरने से दो लोगों की मौत हो गई। वही तीन अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को ईलाज के लिए जिला अस्पताल के ट्रामा सेंटर वार्ड में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है।   जानकारी अनुसार जिले के शासन चौकी अंतर्गत दो व्यक्तियों की शुक्रवार सुबह आकाशीय बिजली की चपेट में आने से मौत हो गई। पहली घटना उस वक्त घटी जब संदीप शाह नामक युवक अपने परिवार के साथ खेत में धान की रोपाई कर रहा था। उसी दौरान अकाशीय अकाशीय बिजली के चपेट में आने से उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई। इस दौरान उसके साथ वहां मौजूद तीन अन्य लोग झुलस कर बुरी तरह घायल हो गए। वहीं दूसरी घटना करकोसा गांव की है। जहां युवक घर के पास ही काम कर रहा था, तभी अकाशीय बिजली की चपेट में आ गया और उसकी घटनास्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गई। फिलहाल दोनों को शासन चौकी पुलिस पीएम हेतु जिला चिकित्सालय भिजवा दिया है और घायलों को इलाज हेतु ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है।

Dakhal News

Dakhal News 24 July 2020


bhopal, Registration , Choice Filling , released till 31 July, MP IT

भोपाल। मध्यप्रदेश में आगामी अगस्त माह से प्रारंभ नए शैक्षणिक सत्र में शासकीय एवं निजी आईटीआई में प्रवेश की ऑनलाइन प्रक्रिया एक जुलाई से प्रारंभ हो गई है। कौशल विकास विभाग के संचालक एस. धनराजू ने शुक्रवार को जानकारी देते हुए बताया कि शासकीय अथवा प्राइवेट आई.टी.आई में प्रवेश के लिए अभ्यार्थियों को आगामी 31 जुलाई तक रजिस्ट्रेशन और च्वाइस फिलिंग करना अनिवार्य होगा।   उन्होंने बताया कि अब तक लगभग 61 हजार 499 रजिस्ट्रेशन तथा 55 हजार 755 अभ्यार्थियों ने च्वाइस फिलिंग की है। एस. धनराजू ने बताया कि इस सत्र में अन्य राज्यों के आवेदकों के प्रवेश की व्यवस्था निर्धारित की गई है। उन्होंने बताया कि एम.पी. ऑनलाइन में रजिस्ट्रेशन तथा त्रुटि सुधार एवं इच्छित संस्थाओं में व्यवस्थाओं की प्राथमिकता के क्रम का विकल्प तथा च्वाईस फिलिंग में त्रुटि सुधार के लिए पोर्टल पर व्यवस्था निर्धारित की गई है। इस सत्र में आवेदक 100 विकल्प भर सकते है।उन्होंने बताया कि प्रवेश की कार्यवाही मेरिट अनुसार निर्धारित है। चयनित अभ्यार्थी जिसे उसका प्रथम विकल्प आवंटित हुआ है, यदि वह प्रवेश नहीं लेता है तो उसका प्रवेश निरस्त हो जाएगा तथा वह आगे की काउंसिलिंग के लिए पात्र नहीं होगा। प्रदेश में 243 शासकीय तथा 900 प्राइवेट कुल 1200 आई.टी.आई. है। शासन द्वारा शासकीय आई.टी.आई. में तीन वर्षों से ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया लागू है। अशासकीय आई.टी.आई में पिछले वर्ष से यह व्यवस्था लागू की गई है। इस वर्ष दसवीं कक्षा के परिणाम में देरी के कारण आई.टी.आई. प्रवेश की अंतिम तिथि को 19 जुलाई से बढ़ाकर 31 जुलाई किया गया है।

Dakhal News

Dakhal News 24 July 2020


bhopal, Registration , Choice Filling , released till 31 July, MP IT

भोपाल। मध्यप्रदेश में आगामी अगस्त माह से प्रारंभ नए शैक्षणिक सत्र में शासकीय एवं निजी आईटीआई में प्रवेश की ऑनलाइन प्रक्रिया एक जुलाई से प्रारंभ हो गई है। कौशल विकास विभाग के संचालक एस. धनराजू ने शुक्रवार को जानकारी देते हुए बताया कि शासकीय अथवा प्राइवेट आई.टी.आई में प्रवेश के लिए अभ्यार्थियों को आगामी 31 जुलाई तक रजिस्ट्रेशन और च्वाइस फिलिंग करना अनिवार्य होगा।   उन्होंने बताया कि अब तक लगभग 61 हजार 499 रजिस्ट्रेशन तथा 55 हजार 755 अभ्यार्थियों ने च्वाइस फिलिंग की है। एस. धनराजू ने बताया कि इस सत्र में अन्य राज्यों के आवेदकों के प्रवेश की व्यवस्था निर्धारित की गई है। उन्होंने बताया कि एम.पी. ऑनलाइन में रजिस्ट्रेशन तथा त्रुटि सुधार एवं इच्छित संस्थाओं में व्यवस्थाओं की प्राथमिकता के क्रम का विकल्प तथा च्वाईस फिलिंग में त्रुटि सुधार के लिए पोर्टल पर व्यवस्था निर्धारित की गई है। इस सत्र में आवेदक 100 विकल्प भर सकते है।उन्होंने बताया कि प्रवेश की कार्यवाही मेरिट अनुसार निर्धारित है। चयनित अभ्यार्थी जिसे उसका प्रथम विकल्प आवंटित हुआ है, यदि वह प्रवेश नहीं लेता है तो उसका प्रवेश निरस्त हो जाएगा तथा वह आगे की काउंसिलिंग के लिए पात्र नहीं होगा। प्रदेश में 243 शासकीय तथा 900 प्राइवेट कुल 1200 आई.टी.आई. है। शासन द्वारा शासकीय आई.टी.आई. में तीन वर्षों से ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया लागू है। अशासकीय आई.टी.आई में पिछले वर्ष से यह व्यवस्था लागू की गई है। इस वर्ष दसवीं कक्षा के परिणाम में देरी के कारण आई.टी.आई. प्रवेश की अंतिम तिथि को 19 जुलाई से बढ़ाकर 31 जुलाई किया गया है।

Dakhal News

Dakhal News 24 July 2020


bhopal, lockdown, 10 days, 8 pm tonight

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना के लगातार बढ़ते मरीजों को देखते हुए राज्य सरकार ने यहां 10 दिन का लॉकडाउन लगाने का निर्णय लिया है। यह लॉकडाउन आज (शुक्रवार) रात आज बसे से शुरू होगा, जो कि आगामी तीन अगस्त की रात आठ बजे तक जारी रहेगा। यानी भोपाल 10 दिन के लिए पूरी तरह लॉक हो जाएगा। नगर निगम की सीमाएं सील कर दी जाएंगी। इस दौरान दूध, दवा, फल, सब्जी, उचित मूल्य दुकान, उद्योग और सरकारी कार्यालय सहित सभी अत्यावश्यक सेवाएं जारी रहेंगी। इस संबंध में गाइडलाइन जारी कर दी गई है।लॉकडाउन के दौरान सरकारी कार्यालय 25 से 30 फीसद कर्मचारियों के साथ खोले जाएंगे। सभी निजी कार्यालय एवं व्यवसायिक संस्थान बंद रहेंगे। औद्योगिक क्षेत्रों में आने-जाने के लिए फैक्ट्री मालिक की ओर से जारी परिचय पत्र मान्य किए जाएंगे। अति आवश्यक काम से भोपाल नगर निगम सीमा के अंदर आने या बाहर जाने के लिए ई-पास लेने पड़ेंगे।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राजधानी में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए बुधवार को भोपाल में 10 दिन का लॉकडाउन लगाने की घोषणा की थी। मंत्रालय में कोरोना की स्थिति और व्यवस्थाओं की नियमित समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन भोपाल नगर निगम सीमा में रहेगा। शेष जिले में गतिविधियां सुचारू रूप से चलेंगी। मुख्यमंत्री ने भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर, मुरैना, खरगोन और उज्जैन पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए हैं।भोपाल में लॉकडाउन को लेकर कलेक्टर अविनाश लवानिया ने आदेश भी जारी कर दिए हैं। इसके अनुसार सम्पूर्ण भोपाल को 10 दिन के लिए सम्पूर्ण लॉकडाउन किया जा रहा है। इस दौरान किराना व्यापारी भी अपने व्यवसाय का संचालन नहीं कर पाएंगे। वहीं दूध और न्यूज पेपर वितरण के लिए सुबह 06.30 से 09.30 तक अनुमति दी जाएगी। इसके अलावा दुकान खोलने या कोई भी नियम तोडऩे पर सख्त कार्यवाही के आदेश दिए गए हैं।

Dakhal News

Dakhal News 24 July 2020


bhopal, lockdown, 10 days, 8 pm tonight

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना के लगातार बढ़ते मरीजों को देखते हुए राज्य सरकार ने यहां 10 दिन का लॉकडाउन लगाने का निर्णय लिया है। यह लॉकडाउन आज (शुक्रवार) रात आज बसे से शुरू होगा, जो कि आगामी तीन अगस्त की रात आठ बजे तक जारी रहेगा। यानी भोपाल 10 दिन के लिए पूरी तरह लॉक हो जाएगा। नगर निगम की सीमाएं सील कर दी जाएंगी। इस दौरान दूध, दवा, फल, सब्जी, उचित मूल्य दुकान, उद्योग और सरकारी कार्यालय सहित सभी अत्यावश्यक सेवाएं जारी रहेंगी। इस संबंध में गाइडलाइन जारी कर दी गई है।लॉकडाउन के दौरान सरकारी कार्यालय 25 से 30 फीसद कर्मचारियों के साथ खोले जाएंगे। सभी निजी कार्यालय एवं व्यवसायिक संस्थान बंद रहेंगे। औद्योगिक क्षेत्रों में आने-जाने के लिए फैक्ट्री मालिक की ओर से जारी परिचय पत्र मान्य किए जाएंगे। अति आवश्यक काम से भोपाल नगर निगम सीमा के अंदर आने या बाहर जाने के लिए ई-पास लेने पड़ेंगे।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राजधानी में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए बुधवार को भोपाल में 10 दिन का लॉकडाउन लगाने की घोषणा की थी। मंत्रालय में कोरोना की स्थिति और व्यवस्थाओं की नियमित समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन भोपाल नगर निगम सीमा में रहेगा। शेष जिले में गतिविधियां सुचारू रूप से चलेंगी। मुख्यमंत्री ने भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर, मुरैना, खरगोन और उज्जैन पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए हैं।भोपाल में लॉकडाउन को लेकर कलेक्टर अविनाश लवानिया ने आदेश भी जारी कर दिए हैं। इसके अनुसार सम्पूर्ण भोपाल को 10 दिन के लिए सम्पूर्ण लॉकडाउन किया जा रहा है। इस दौरान किराना व्यापारी भी अपने व्यवसाय का संचालन नहीं कर पाएंगे। वहीं दूध और न्यूज पेपर वितरण के लिए सुबह 06.30 से 09.30 तक अनुमति दी जाएगी। इसके अलावा दुकान खोलने या कोई भी नियम तोडऩे पर सख्त कार्यवाही के आदेश दिए गए हैं।

Dakhal News

Dakhal News 24 July 2020


bhopal, Major decision, MP Government, poor people, eligibility slip

भोपाल। मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के गरीब वर्ग के व्यक्तियों के हित में बड़ा निर्णय लिया है, जिसके अनुसार प्रदेश के ऐसे 36 लाख 86 हजार 856 गरीब जिनके पास राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत पात्रता पर्ची नहीं है, उन्हें भी पात्रता पर्ची जारी कर उचित मूल्य राशन प्रदाय किया जाएगा। वर्तमान में प्रदेश में 5 करोड़ 44 लाख 24 हजार उचित मूल्य उपभोक्ता हैं।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रालय में गुरुवार को हुई 'वन नेशन-राशन कार्ड' संबंधी बैठक में कहा कि प्रदेश में अब हरेक गरीब को उचित मूल्य राशन मिलेगा। कोरोना काल में पता चला कि प्रदेश में बहुत से ऐसे गरीब हैं जिनके पास पात्रता पर्ची नहीं होने से उचित मूल्य राशन नहीं मिल रहा था। पहले तो प्रदेश में तुरंत उनके राशन की व्यवस्था की गई, साथ ही प्रवासी मजदूरों के लिए भी राशन की व्यवस्था की गई। अब ऐसे सभी 36 लाख 86 हजार गरीबों की पहचान कर ली गई है तथा उन्हें पात्रता पर्ची जारी करने का कार्य प्रारंभ किया जा रहा है। अब ये सभी उचित मूल्य राशन उपभोक्ताओं के रूप में पंजीकृत हो जाएंगे तथा इन्हें अगस्त माह से उचित मूल्य राशन मिल सकेगा। प्रदेश की धरती पर कोई भी गरीब उचित मूल्य राशन से वंचित नहीं रहेगा।खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने बैठक में कहा कि प्रदेश की सभी 25 हजार 490 उचित मूल्य दुकानों पर पीओएस मशीनों पर आधार दर्ज करने की सुविधा है। त्रुटिपूर्ण एवं अन्य के दर्ज आधार नंबर में संशोधन की सुविधा भी पीओएस में है। विक्रेता द्वारा राशन वितरण करते समय एवं घर-घर जाकर आधार सीडिंग का कार्य किया जा रहा है। समग्र पोर्टल पर स्थानीय निकाय द्वारा भी आधार सीडिंग की सुविधा है। जिन हितग्राहियों का आधार पंजीयन नहीं है, उनको पंजीयन कराने के लिये अवगत कराया जा रहा है।अभियान चलाकर करें आधार सीडिंग का कार्यमुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस ने कहा कि वन नेशन-वन राशन कार्ड योजना के त्वरित क्रियान्वयन के लिए सभी उचित मूल्य हितग्राहियों की आधार सीडिंग का कार्य अभियान चलाकर पूरा किया जाए। सभी पात्र व्यक्तियों को जोड़े जाने एवं पात्रता पर्ची वितरण का कार्य तत्परता के साथ किया जाए।वन नेशन-वन राशनकार्डप्रमुख सचिव शिवशेखर शुक्ला ने बताया कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम, 2013 के अंतर्गत सम्मिलित पात्र परिवारों को अंतर राज्यीय पोर्टेबिलिटी के माध्यम से खाद्यान्न प्रदाय किया जाना है। इसके अंतर्गत उचित मूल्य दुकान का 100 प्रतिशत आटोमेशन तथा 100 प्रतिशत आधार सीडिंग की जानी है। इसकी समय-सीमा 31 दिसंबर तक है।  

Dakhal News

Dakhal News 23 July 2020


bhopal,771 people died , coronation, MP, crosses 25 thousand

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। अब यहां तीन जिलों में 340 नये मरीज मिले हैं। इनमें भोपाल 190, इंदौर 118 और उज्जैन 32 शामिल हैं, जबकि एक व्यक्ति की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 25 हजार के पार पहुंच गई है। वहीं प्रदेश में कोरोना से अब तक 771 लोगों की मौत हो चुकी है। इंदौर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रवीण जड़िया ने गुरुवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा बुधवार देर रात जारी की गई 1527 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट में 118 नये संक्रमित मिले हैं, जबकि एक व्यक्ति की मौत की पुष्टि हुई है। इसके बाद इंदौर में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 6457 और मरने वालों की संख्या 301 हो गई है। वहीं भोपाल सीएमएच डॉ. प्रभाकर तिवारी के अनुसार, राजधानी में गुरुवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में 190 नये संक्रमितों की पुष्टि हुई है। इसके अलावा उज्जैन में भी 32 नये पॉजिटिव मिले हैं।340 नये मामलों के साथ अब राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 24,182 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 6457, भोपाल 4859, उज्जैन 1056, मुरैना 1401, ग्वालियर 1798, नीमच 558, जबलपुर 864, सागर 571, बुरहानपुर 451, खंडवा 542, खरगौन 571, भिण्ड 422, देवास 396, धार 325, रतलाम 329, मंदसौर 324, बड़वानी 289, रायसेन 242, राजगढ़ 187, श्योपुर 186, बैतूल 175, शाजापुर 239, छिंदवाड़ा 98, रीवा 159, टीकमगढ़ 269, छतरपुर 148, विदिशा 209, पन्ना 79, दमोह 94, शिवपुरी 253, अशोकनगर 78, दतिया 163, हरदा 153, सतना 83, होशंगाबाद 114, बालाघाट 74, नरसिंहपुर 109, डिंडौरी 32, अनूपपुर 52, कटनी 58, गुना 59, शहडोल 54, सीहोर 120, झाबुआ 93, सीधी 57, सिंगरौली 69, आगरमालवा 64, सिवनी 27. निवाड़ी 28, उमरिया 35, अलीराजपुर 90 और मंडला 19 मरीज शामिल हैं।इंदौर में हुई एक व्यक्ति की मौत के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 771 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 301, भोपाल 144, उज्जैन 71, बुरहानपुर 23, खंडवा 19, जबलपुर 21, खरगौन 16, ग्वालियर 10, धार 09, मंदसौर 10, नीमच 08, सागर 28, देवास 10, रायसेन 05, होशंगाबाद 05, सतना 05, आगरमालवा 03, झाबुआ 03, अशोकनगर 01, शाजापुर 04, दतिया 02, छिंदवाड़ा 02, सीहोर 05, उमरिया 01, रतलाम 07, बड़वानी 04 मुरैना 08, राजगढ़ 08, श्योपुर 02, टीमकगढ़ 07, रीवा 01, गुना 04, हरदा 05, कटनी 03, सीधी 01, शिवपुरी 02, अलीराजपुर 01, भिंड 01, बैतूल 02, नरसिंहपुर 01, सिवनी 01, सिंगरौली 01, छतरपुर 02, विदिशा 01, दमोह 01 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है। हालांकि, राज्य में अब तक 16,836 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच चुके हैं। अब यहां सक्रिय प्रकरण 7566 हैं। भोपाल में लगातार कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए 10 दिन का लॉकडाउन घोषित किया गया है। प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि 24 जुलाई की रात 8 बजे से तीन अगस्त को रात आठ बजे तक भोपाल में लॉकडाउन रहेगा। इस दौरान मेडिकल सेवा, दूध की दुकान, सरकारी राशन की दुकान, सब्जी के ठेले और इंडस्ट्री खुली रहेंगी।

Dakhal News

Dakhal News 23 July 2020


Balaghat, house wall fell , heavy rain, one killed, two injured

बालाघाट। जिले के लालबर्रा थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पालाकामथी में बीती देर रात आंधी-तूफान के साथ हुई तेज बारिश में एक मकान की दीवार गिर गई, जिसमें परिवार के तीन लोग दब गए। इस हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि दो लोग घायल हुए हैं। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और ग्रामीणों की मदद से घायलों को मलबे से निकालकर अस्पताल पहुंचाया। पुलिस फिलहाल मामले की जांच कर रही है।लालबर्रा थाना पुलिस के अनुसार, ग्राम पालाकामथी में बुधवार देर रात तेज बारिश के स्थानीय 61 वर्षीय निवासी धनीराम राहंगडाले के मकान की दीवार भरभराकर गिर गई, जिससे घर में सो रहे परिवार के तीन सदस्य मलबे में दब गए। ग्रामीणों ने मलबे में दबे लोगों को बाहर निकाला तब तक धनीराम की मौत हो चुकी थी, जबकि उसकी पत्नी सेजा बाई और नाती आयुष गंभीर रूप से घायल हो गए। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां उनका उपचार जारी है। वहीं, पुलिस ने मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले को जांच में लिया  है।

Dakhal News

Dakhal News 23 July 2020


bhopal, 153 new cases , Corona, not wreaking,havoc

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है। अब यहां फिर 153 नये संक्रमित मिले हैं। इसके बाद भोपाल में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढक़र 4822 हो गई है, जबकि अब तक राजधानी में कोरोना से 142 लोगों की मौत हो चुकी है।भोपाल में कोरोना से बढ़ते मामलों को देखते हुए करीब 15 दिन पहले ही शहर में दो दिन शनिवार और रविवार लॉकडाउन किया गया था। इसके बाद अब शहर के आधे बाजारों को पांच दिन के लिए लॉकडाउन कर दिया है। वहीं, रात्रि कफ्र्यू की अवधि भी दो घंटे के लिए बढ़ा दी है। इसके बाद भी यहां नये मामलों में कमी नहीं आ रही है। भोपाल सीएमएचओ कार्यालय द्वारा बताया गया है कि बुधवार को सुबह प्राप्त रिपोर्ट में 153 नये लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके बाद अब यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 4822 हो गई है। नये मरीजों में चार इमली, 12 नंबर स्टॉप कुशाभाऊ ठाकरे कालोनी,  बरखेड़ी स्थित डी मार्ट, ओल्ड जेल कंपाउंड परिसर से एक जवान, गुप्ता कालोनी आनंद नगर, राजेन्द्र नगर कोच फैक्ट्री, मरघटिया मन्दिर क्षेत्र, आरटीओ ऑफिस शाहजहानाबाद, साकेत नगर, गांधी मेडिकल कालेज से एक डॉक्टर, अरेरा कालोनी, चन्दूखेड़ी, प्रोफेसर कालोनी क्षेत्र के लोग शामिल हैं।हालांकि, भोपाल में पुराने मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर भी लौट रहे हैं। इसी क्रम में बुधवार को भी 54 मरीजों को पूरी तरह स्वस्थ होने के बाद चिरायु अस्पताल से डिस्चार्ज किया है। अब तक भोपाल में 3252 मरीज पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं। अब शहर में सक्रिय मरीजों की संख्या 1400 के आसपास है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 22 July 2020


bhopal, Assistant Superintendent ,Bareilly Sub Jail , Raisen suspended

भोपाल। रायसेन जिले के बरेली उपजेल के सहायक जेल अधीक्षक विनय गढ़वाल को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर उनका मुख्यालय जिला जेल रायसेन किया गया है। इस संबंध में बुधवार को जेल विभाग द्वारा आदेश जारी किये गये हैं.अतिरिक्त जेल एवं सुधारात्मक सेवाएं डॉ. जीआर मीना ने रायसेन कलेक्टर उमाशंकर भार्गव प्रतिवेदन के आधार पर निलंबन की कार्यवाही की है। उल्लेखनीय है कि रायसेन जिले की सब जेल बरेली में 20 जुलाई को 67 बंदी एवं 3 जेल स्टाफ कोरोना पॉजिटिव पाये गये थे। सहायक जेल अधीक्षक विनय गढ़वाल द्वारा कुछ बंदियों को सर्दी-जुकाम एवं बुखार के लक्षण होने के बाबजूद भी स्वास्थ्य परीक्षण कराकर पृथक नहीं रखा गया, जिस के कारण जेल में अन्य कैदियों एवं स्टॉफ को कोरोना का संक्रमण हुआ। गढ़वाल की गंभीर लापरवाही एवं शिथिल नियंत्रण पाये जाने के कारण उनके विरूद्ध निलंबन की कार्यवाही की गई है। गृह एवं जेल मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा के संज्ञान में सब जेल बरेली का प्रकरण आया तो उन्होंने सहायक जेल अधीक्षक को निलंबित करने के निर्देश दिये थे।

Dakhal News

Dakhal News 22 July 2020


panna, Laborers found, diamond,worth Rs 50 lakh

पन्ना। मध्यप्रदेश का पन्ना जिला हीरा उत्पादन के लिए देशभर में मशहूर है। यहां अब भी खदानों में खुदाई के दौरान हीरे निकलते हैं। मंगलवार को यहां खुदाई के दौरान मजदूरों को 10 कैरेट 69 सेंट का एक हीरा मिला है। इसकी कीमत 50 लाख रुपये आंकी गई है। यह हीरा उन्होंने कलेक्टर कार्यालय स्थित हीरा कार्यालय में जमा कराया है। इसकी आने वाले दिनों में नीलामी की जाएगी।जानकारी के मुताबिक, पन्ना जिले के ग्रामी रानीपुर में मंगलवार को सुबह लीज पर ली गई हीरे की खदान में नौ मजदूर खुदाई कर रहे थे। इसी दौरान उन्हें यह हीरा मिला। मजदूरों ने इस हीरे को हीरा कार्यालय में जमा कराया गया है। कार्यालय के अधिकारियों को मुताबिक, हीरे की क्वालिटी उसकी चमक के आधार पर तय होती है। जिन हीरों में ज्यादा चमक होती है, उनकी कीमत भी अधिक होती है। यह हीरा 10 कैरेट 69 सेंट का है, जिसकी अनुमानित कीमत करीब 50 लाख रुपये है। उन्होंने बताया कि यहां हीरे की उथली खदानों से हीरे निकलते हैं, जिनकी नीलामी की जाती है। इस हीरे की भी नीलामी की जाएगी।

Dakhal News

Dakhal News 21 July 2020


indore, 70 new cases , corona found again, four people died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। यहां लगातार संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। पिछले चार दिनों से यहां सौ से अधिक मरीज मिल रहे थे। अब यहां 70 नये संक्रमित मिले हैं जबकि कोरोना से चार लोगों की मौत हुई है। इसके बाद जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 6225 हो गई है। इंदौर में अब तक 299 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है।इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रवीण जड़िया ने मंगलवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा सोमवार देर रात 1606 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 70 पॉजिटिव और 1505 रिपोर्ट निगेटिव आई है जबकि शेष सेम्पल रिजेक्ट हुए हैं। इन 70 नये मरीजों के साथ अब जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 6225 हो गई है। इंदौर में कोरोना से चाल लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। इसके बाद यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 299 हो गई है।हालांकि राहत की खबर यह है कि इंदौर में अब 4366 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और विभिन्न अस्पतालों में उपचार के बाद पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब शहर में सक्रिय मरीजों की संख्या 1600 के आसपास है, जिनका उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 21 July 2020


ujjian, Lord Mahakaleshwar, third ride  Monday

उज्जैन। उज्जैन स्थित विश्व प्रसिद्ध भगवान महाकालेश्वर की तीसरी सवारी सोमवार 20 जुलाई को शाम 4 बजे महाकाल मन्दिर से परिवर्तित मार्ग से निकाली जायेगी। परिवर्तित मार्ग अनुसार भगवान महाकालेश्वर की सवारी महाकाल मन्दिर से बड़ा गणेश मन्दिर होते हुए हरसिद्धि मन्दिर चौराहा पहुंचेगी। यहां से झालरिया मठ और बालमुकुंद आश्रम होते हुए सवारी रामघाट पर पहुंचेगी। रामघाट पर पूजन-अर्चन के पश्चात सवारी रामानुजकोट, हरसिद्धि की पाल होते हुए हरसिद्धि मन्दिर मार्ग, बड़ा गणेश मन्दिर के सामने से होती हुई पुन: महाकालेश्वर मन्दिर पहुंचेगी। सवारी का लाईव प्रसारण विभिन्न चैनलों द्वारा किया जायेगा। कलेक्टर एवं महाकालेश्वर मन्दिर प्रबंध समिति के अध्यक्ष  आशीष सिंह ने श्रद्धालुओं से आग्रह किया है कि कोरोना संक्रमण के मद्देनजर वे सवारी देखने के लिये घरों से बाहर न निकलें। उन्होंने बताया कि सवारी मार्ग में लगे बैरिकेट्स को ढंककर सवारी के व्यू को बाधित किया जायेगा, इसीलिये बैरिकेटिंग के बाहर एकत्रित होने पर भी सवारी के दर्शन नहीं हो पायेंगे। कलेक्टर ने कोरोना संक्रमण से बचाव को ध्यान में रखते हुए सभी श्रद्धालुओं से आग्रह किया है कि वे घरों में ही रहकर भगवान महाकाल की सवारी का दर्शन लाभ लें।सोमवती एवं हरियाली अमावस्या पर शिप्रा नदी के सभी घाटों पर स्नान पर प्रतिबंधकलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी आशीष सिंह द्वारा रविवार को प्रतिबंधात्मक आदेश जारी करते हुए आगामी 20 जुलाई को सोमवती एवं हरियाली अमावस्या पर्व पर शिप्रा नदी के सभी घाटों पर किसी भी प्रकार का स्नान एवं नदी एवं घाटों पर डुबकी लगाना पूर्णत: प्रतिबंधित कर दिया है। साथ ही नदी एवं घाटों के किनारे जाना भी पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा। उक्त आदेश तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया गया है। उल्लंघन पाये जाने पर सम्बन्धित के विरूद्ध वैधानिक कार्यवाही की जायेगी।

Dakhal News

Dakhal News 19 July 2020


bhopal, Saturn, Earth, Sun, come straight line ,Monday night

भोपाल। सावन मास के तीसरे सोमवार को देश जब हरियाली अमावस्या मना रहा होगा, तब रात्रि में आसमान में एक खगोलीय घटना होने जा रही है। इस दौरान सौरमंडल के छटवें ग्रह शनि का पृथ्वी से सामना होगा। यह घटना 20-21 जुलाई की मध्यरात्रि 3 बजकर 44 मिनट पर घटित होगी। इस दौरान शनि, पृथ्वी और सूर्य एक सीध में आ जाएंगे। इस खगोलीय घटना में 82 चंद्रमा वाले शनि ग्रह का बिना चंद्रमा वाली पृथ्वी से सामना होगा।    यह जानकारी रविवार को भोपाल की राष्ट्रीय अवार्ड प्राप्त विज्ञान प्रसारक सारिका घारू ने हिन्दुस्थान समाचार से बातचीत में दी। उन्होंने इस दुर्लभ खगोलीय घटना केे बारे में बताया कि सौरमंडल में सभी ग्रह अपने निश्चित कक्ष में परिक्रमा करते रहते हैं। इस दौरान इन ग्रहों का आपस में सामना भी होता है। हरियाली अमावस्या की मध्य रात्रि में शनि, पृथ्वी और सूर्य एक सीध में आने की घटना होने जा रही है। इस दौरान पृथ्वी शनि और सूर्य के बीच में आ जाएगी और तीनों एक सीध में रहेंगे। पृथ्वी के शनि और सूर्य के एक सीध में रहने की यह घटना सेटर्न एट अपोजिशन कहलाती है।  सारिका ने बताया कि अमावस्या पर पृथ्वी का चंद्रमा सूर्य की तरफ होने से सारी रात दिखाई नहीं देगा, जबकि सूर्य के सामने होने से शनि के साथ उसके सभी चंद्रमा रहेंगे। लिहाजा, बिना चंद्रमा के पृथ्वी का सामना 82 चंद्रमा वाले शनि से होगा। उन्होंने बताया कि शनि के 82 चंद्रमा बताये गए हैं। इनमें से अब तक 53 चंद्रमाओं की पुष्टि हो चुकी है, जबकि 29 अन्य की पुष्टि की जा रही है।  विज्ञान प्रसारक सारिका ने बताया कि अमावस्या पर होने वाली अपोजीशन की स्थिति में इस साल शनि की पृथ्वी से दूरी सबसे कम होगी। कोरी आंख से तो यह तारे के रूप में दिखेगा, लेकिन टेलिस्कोप या अच्छे बाइनाकुलर से इसके रिंग बहुत अच्छे से देखे जा सकेंगे। उन्होंने बताया कि 149 करोड़ 76 लाख किमी की दूरी पर परिक्रमा करता यह ग्रह सूर्य से इतना दूर है कि सूर्य के प्रकाश को शनि तक पहुंचने में 83 मिनट का समय लगता है। शनि इतना विशाल है कि इसके व्यास पर रखने के लिये 9 पृथ्वी की जरूरत होगी। शनि का एक दिन लगभग 11 घंटे के बराबर है, जबकि इसका एक साल पृथ्वी के 29 वर्षों से कुछ अधिक है। उन्होंने बताया कि हाईड्रोजन एवं हीलियम से बने इस गैसीय पिंड में ठोस धरातल नहीं है। सारिका ने बताया कि रिंगों के कारण मनमोहक दिखने वाला शनि का सामना पृथ्वी से होने की अगली खगलीय घटना इसके बाद 02 अगस्त 2021 को घटित होगी।

Dakhal News

Dakhal News 19 July 2020


bhopal, Rapidly spreading, infection,  record 149 ,new positives found

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। यहां शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद नये संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। यहां लगातार तीन दिन तक सौ से अधिक संक्रमित मिलने के बाद चौथे दिन रिकॉर्ड 149 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 4370 हो गई है। वहीं, भोपाल में अब तक कोरोना से 129 लोगों की मौत हो चुकी है।भोपाल सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी के अनुसार, राजधानी में रविवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में 149 नये संक्रमित मिले हैं। यह संख्या एक दिन में सर्वाधिक है। इसके पहले गुरुवार को 102, शुक्रवार को 129 और शनिवार को 140 नये पॉजिटिव मिले थे। भोपाल में लगातार चौथे दिन कोरोना का विस्फोट हुआ है। रविवार को मिले नये मामलों में भोपाल की सबसे पॉश अरेरा कॉलोनी से छह लोग संक्रमित पाए गए हैं। इसके अलावा जहांगरीराबाद क्षेत्र से 4, एसबीआई हेड ब्रांच से 2, इब्राहिमगंज से एक, एम्स बॉयज हॉस्टल से एक मेडिकल छात्र, डी सेक्टर पिपलानी कॉलोनी से एक ही परिवार के तीन लोग, गुप्ता कॉलोनी आनंद विहार से एक ही परिवार के दो लोग, धोबीघाट पातरा बरखेड़ी से एक ही परिवार के दो और जैन कालोनी चंदन नगर से एक ही परिवार के 4 सदस्यों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इन 149 नये मामलों के बाद अब भोपाल में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 4370 हो गई है। हालांकि, यहां अब तक 2950 व्यक्ति कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 1200 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है। बता दें कि एक सप्ताह पहले भोपाल में सक्रिय मरीजों की संख्या 700 के आसपास थी। अधिक संख्या में संक्रमित मरीज मिलने से सक्रिय मरीजों की संख्या में भी तेजी से इजाफा हुआ है।

Dakhal News

Dakhal News 19 July 2020


Ratlam, Patwari caught, red handed, taking bribe ,four thousand rupees

रतलाम। उज्जैन लोकायुक्त पुलिस की टीम ने शुक्रवार को जिले के जावरा तहसील के हल्का नं. 43 के पटवारी विजय सोंदल को चार हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगेहाथों पकड़ा है। आरोपित पटवारी के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज कर आगे की कार्वाई की जा रही है।   उज्जैन लोकायुक्त के इन्स्पेक्टर राजेंद्र वर्मा ने बताया कि ग्राम बरड़िया गोयल निवासी कन्हैया लाल जाट ने शिकायत की थी कि डायवरटेड ज़मीन को कम्प्यूटर में दर्ज करने के लिए पटवारी विजय सोंदल ने चार हज़ार रुपये रिश्वत की मांग की है। उज्जैन लोकायुक्त पुलिस ने शिकायत की पुष्टि होने पर शुक्रवार को पटवारी को चार हजार रुपये रिश्वत लेते उसके न्यू धान मंडी रोड के पास जावरा स्थित कार्यालय से रंगे हाथ गिरफ़्तार किया है। एक सप्ताह में यह तीसरा पटवारी रिश्वत के मामले में जिले में पकड़ाया।    

Dakhal News

Dakhal News 17 July 2020


indore, Corona century , second consecutive day, 129 new cases ,found again

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में लगातार दूसरे दिन कोरोना का विस्फोट हुआ है। यहां शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। बीते रोज इंदौर में 136 नये संक्रमित मिले थे। अब यहां कोरोना के 129 नये मामले सामने आए हैं, जबकि चार लोगों की मौत भी हुई है। इसके बाद यहां कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 5761 हो गई है, जबकि यहां अब तक कोरोना से 284 लोगों की मौत हो चुकी है।इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने शुक्रवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा गुरुवार देर रात 2787 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 127 रिपोर्ट पॉजिटिव और शेष 2652 रिपोर्ट निगेटिव आई हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 5761 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से चार लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 284 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि अब तक इंदौर में 4139 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 1338 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 17 July 2020


bhopal, Reservation wards,  start from July 28, Madhya Pradesh, municipal elections

भोपाल। कोरोना संकट के बीच राजधानी भोपाल में नगरीय निकाय चुनाव की तैयारियां शुरू हो गई हैं। नगर पालिक निगम भोपाल के कुल 85 वार्डो का आरक्षण 28 जुलाई से शुरू हो जाएगा। इस संबंध में नगरीय आवास एवं विकास विभाग ने आदेश जारी कर दिया है। आदेश के मुताबिक सभी निकायों के आरक्षण की कार्रवाई 31 जुलाई तक पूरा कर लिया जाएगा।   भोपाल नगर निगम के वार्डों का आरक्षण आगामी 28 जुलाई से दोपहर 3 बजे से गांधी मेडिकल कॉलेज के ऑडिटोरिम हॉल में शुरू हो जाएगा। कोविड 19 संक्रमण के चलते सीमित लोगों को ऑडिटोरिम में प्रवेश दिया जाएगा। ऑडिटोरियम के बाहर टी.वी. स्क्रीन पर आरक्षण की कार्यवाही देखी जा सकेगी। गौरतलब है कि प्रदेश में नगर निकाय चुनाव होने थे लेकिन कोरोना संकट के कारण यह आगे टल गया। अब मध्य प्रदेश में नगर निगम चुनाव इस वर्ष के आखिरी में या फिर  2021 के शुरुआत में संपन्न हो सकते हैं।

Dakhal News

Dakhal News 17 July 2020


indore, 93 new cases ,corona found, five more, people died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। यहां संक्रमित मरीजों के साथ-साथ कोरोना से मरने वालों की संख्या में भी लगातार इजाफा हो रहा है। अब यहां 93 नये मामले सामने आए हैं, जबकि पांच लोगों की मौत हुई है। इसके बाद जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 5496 हो गई है। वहीं, इंदौर में अब तक कोरोना से 278 लोगों की मौत हो चुकी है।इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने बुधवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा मंगलवार देर रात 3158 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई। इनमें 93 रिपोर्ट पॉजिटिव और शेष रिपोर्ट निगेटिव आई हैं। इन 93 नये मामलों के साथ अब जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 5496 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से पांच लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 278 हो गई है।बता दें कि जिला प्रशासन द्वारा कोरोना की रोकथाम के लिए लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। रविवार को एक दिन का लॉकडाउन रखने के बाद शहर में लेफ्ट-राइट पद्धति से बाजार खोले जा रहे हैं और दो गज की दूरी का पालन नहीं करने वाले के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा रही है। इसके बाद भी यहां पिछले एक सप्ताह से रोजाना औसत 90 मरीज सामने आ रहे हैं। हालांकि, राहत की खबर यह है कि अब तक इंदौर में 4074 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच चुके हैं, लेकिन शहर में अब सक्रिय मरीजों की संख्या बढक़र 1144 हो गई है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 15 July 2020


bhopal,Meteorological Department, issued alert , heavy rain, heavy thunder, many districts

भोपाल। समूचे मध्यप्रदेश में मानसून एक बार फिर से सक्रिय हो गया है। मौसम विभाग ने अगले दो से तीन दिन में मध्य प्रदेश के कई इलाकों में भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की है। कई जिलों के लिए अलर्ट भी जारी किया गया है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक जबलपुर, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा और सिवनी में भारी बारिश के आसार हैं।   राजधानी भोपाल में बुधवार सुबह से आसमान में हल्के बादल छाए हुए है। साथ ही गर्मी और उमस बरकरार है। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि मानसून ट्रफ के वापस मध्य भारत की तरफ खिसकने की संभावना है। साथ ही इसी समय बंगाल की खाड़ी में भी एक कम दबाव का क्षेत्र बनने के आसार हैं। इससे प्रदेश में बरसात की गतिविधियों में तेजी आने की संभावना है। मौसम विभाग का कहना है लोकल थंडरस्टॉर्म के कारण बारिश की झड़ी लगी है। जिसके चलते प्रदेश भर में आने वाले 2 से 3 दिनों में तेज बारिश होने के आसार हैं। गरज चमक के साथ भारी बारिश की संभावना है।   इन जिलों में बारिश की चेतावनीमौसम विभाग का कहना है कि आने वाले 24 घंटों में प्रदेश के भोपाल, रीवा, सागर, जलबपुर, होशंगाबाद, बालागाट, अलीराजपुर, झाबुआ, कटनी, शहडोल, उमरिया, डिंडोरी, देवास, शाजापुर, बड़वानी, सीहोर और रायसेन में कुछ स्थानों में गरज-चमक के साथ बारिश होने की संभावना है। तापमान की बात करें तो भोपाल में मौसम का न्यूनतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस रहेगा। और हवाओं कि गति 11 किमी प्रति घंटा तथा आद्र्रता 75 प्रतिशत रहेगी। ठीक इसी प्रकार ग्वालियर में आज मौसम का न्यूनतम तापमान 29 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस और हवाओं कि गति 11 किमी प्रति घंटा तथा आद्र्रता 43 प्रतिशत रहेगा।

Dakhal News

Dakhal News 15 July 2020


bhopal,CBSE, 10th Board, Bhopal Region results, 92.86 ,Ajmer Region, 96.93 percent

भोपाल, 15 जुलाई (हि.स.)। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) द्वारा कक्षा 10वीं की परीक्षा का परिणाम बुधवार को दोपहर में जारी किया गया। भोपाल रीजन का परीक्षा परिणाम 92.86 फीसदी रहा, जबकि अजमेर रीजन में 96.93 फीसदी विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दसवीं बोर्ड में सफल हुए विद्यार्थियों को सोशल मीडिया के माध्यम से शुभकामनाएं दी हैं।बता दें कि मध्यप्रदेश के कुछ सीबीएसई स्कूल अजमेर रीजन से जुड़े हैं, जबकि अधिकांश स्कूल भोपाल रीजन में आते हैं। देश में ओवरआल परीक्षा परिणाम 91.46 फीसदी रहा, जो कि पिछले साल के परिणाम से 0.36 फीसदी अधिक है। देश में 99.28 फीसदी के साथ त्रिवेन्द्रम रीजन टॉप है, जबकि अजमेर रीजन 96.93 फीसदी के साथ पांचवे और भोपाल रीज 92.86 फीसदी के साथ आठवें स्थान पर है। प्रदेश से सीबीएसई दसवीं की परीक्षा देने वाले विद्यार्थी अपना रिजल्ट सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट cbseresults.nic.in और cbse.nic.in पर देख सकते हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को दोपहर में ट्वीट के माध्यम से उत्तीर्ण प्रदेश के सभी छात्र-छात्राओं को बधाई दी है। उन्होंने ट्वीट किया है कि - ‘सीबीएसई की 10वीं की परीक्षा में उत्तीर्ण हुए सभी छात्र-छात्राओं को हार्दिक बधाई देता हूँ। आप सभी के साथ आपके माता-पिता और गुरुजनों को भी शुभकामनाएँ देता हूं, जिनका आपको गढऩे में अतुलनीय योगदान है। आगे भी इसी तरह मेहनत करें और सफलता पाएं, पुन: शुभकामनाएं।’

Dakhal News

Dakhal News 15 July 2020


indore, 101 passengers , Air India special flight, Vande India Mission ,Ukraine reach Indore

इंदौर। कोरोना संक्रमणकाल में विदेशों में फंसे भारतीय को स्वदेश वापस लाने के लिए केन्द्र सरकार के शुरू किये गए वंदे भारत मिशन के तहत यूक्रेन में फंसे 101 यात्रियों को लेकर एयर इंडिया की विशेष फ्लाइट मंगलवार इंदौर एयरपोर्ट पहुंची। यहां सभी यात्रियों की यहां प्रारंभिक जांच की गई, जिसमें किसी भी यात्री में कोरोना के लक्षण नहीं मिले। इनमें 20 यात्री इंदौर के हैं और शेष प्रदेश के अन्य जिलों के हैं। इंदौर के यात्रियों को एक निजी होटल में संस्थागत एकांतवास में रखा गया है, जबकि शेष यात्रियों को अपने घर भेज दिया गया है।कोरोना के चलते विदेशों में फंसे भारतीय को वापस स्वदेश लाने का सिलसिला निरंतर जारी है। इसी क्रम में वंदे भारत मिशन के तहत यूक्रेन से एयर इंडिया की विशेष फ्लाइट से मंगलवार को सुबह 5.30 बजे इंदौर के देवी अहिल्याबाई होल्कर इंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पहुंची। इस फ्लाइट से देश के 101 यात्री यहां पहुंचे हैं। इन यात्रियों को एयरपोर्ट पर ही स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। इनमें 20 यात्री इंदौर के हैं, जिन्हें होटल बी टाउन में संस्थागत एकातंवास में रखा गया है। वहीं, शेष सभी यात्रियों को सडक़ मार्ग से अपने अपने गृह जिलों के लिए रवाना कर दिया गया हैं। सभी यात्रियों को अपने अपने घरों में एकांतवास में रहने की सलाह दी गई है।

Dakhal News

Dakhal News 14 July 2020


bhopal, 667 people died corona  MP,  number of infected 18,466

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना की ग्रोथ रेट देश में सबसे कम और संक्रमित मरीजों का रिकवरी रेट 76 फीसदी से अधिक होने के बाद भी यहां नये मामलों में कमी नहीं आ रही है। इंदौर-भोपाल के साथ ही मुरैना में भी हालात बेकाबू होते जा रहे हैं। प्रदेश के चार जिलों में अब 259 नये मामले सामने आए हैं, जबकि चार लोगों की मौत हुई है। इसके बाद राज्य में संक्रमितों की संख्या 18 हजार 466 हो गई है। वहीं, प्रदेश में कोरोना से अब तक 667 लोगों की मौत हो चुकी है। इंदौर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ प्रवीण जडिय़ा ने मंगलवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा सोमवार देर रात 1211 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट में 51 नये पॉजिटिव मिले हैं, जबकि चार लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। इसके बाद जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 5403 और कोरोना से मरने वालों की संख्या 273 हो गई है। वहीं, भोपाल सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी के अनुसार, मंगलवार को सुबह आई रिपोर्ट में भोपाल में 97 नये संक्रमित मिले हैं। इसके अलावा मुरैना में 98 और उज्जैन में कोरोना से 13 नये मामले सामने आए हैं।इन 259 नये मामलों के साथ राज्य में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 18,466 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 5403, भोपाल 3687, उज्जैन 919, मुरैना 1074, ग्वालियर 1016, नीमच 497, जबलपुर 572, सागर 451, बुरहानपुर 431, खंडवा 414, खरगौन 386, भिण्ड 351, देवास 265, धार 200, रतलाम 229, मंदसौर 196, बड़वानी 187, रायसेन 117, राजगढ़ 125, श्योपुर 107, बैतूल 118, शाजापुर 123, छिंदवाड़ा 78, रीवा 85, टीकमगढ़ 127, छतरपुर 69, विदिशा 101, पन्ना 58, दमोह 62, शिवपुरी 158, अशोकनगर 63, दतिया 68, हरदा 84, सतना 50, होशंगाबाद 53, बालाघाट 54, नरसिंहपुर 39, डिंडौरी 31, अनूपपुर 31, कटनी 36, गुना 33, शहडोल 30, सीहोर 54, झाबुआ 47, सीधी 41, सिंगरौली 31, आगरमालवा 35, सिवनी 21. निवाड़ी 13, उमरिया 25, अलीराजपुर 24 और मंडला 07 मरीज शामिल हैं।वहीं, इंदौर में हुई चार लोगों की मौत के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 653 से बढक़र 663 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 273, भोपाल 122, उज्जैन 71, बुरहानपुर 23, खंडवा 17, जबलपुर 15, खरगौन 15, ग्वालियर 05, धार 08, मंदसौर 09, नीमच 08, सागर 22, देवास 10, रायसेन 05, होशंगाबाद 04, सतना 02, आगरमालवा 02, झाबुआ 02, अशोकनगर 01, शाजापुर 04, दतिया 01, छिंदवाड़ा 02, सीहोर 02, उमरिया 01, रतलाम 06, बड़वानी 03 मुरैना 05, राजगढ़ 07, श्योपुर 02, टीमकगढ़ 05, रीवा 01, गुना 02, हरदा 04, कटनी 03, सीधी 01, शिवपुरी 01, अलीराजपुर 01 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है। हालांकि, राज्य में अब तक 13,208 मरीज कोरोना से जंग जीत चुके हैं और स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं। अब प्रदेश में कोरोना के सक्रिय प्रकरण 4595 हैं।

Dakhal News

Dakhal News 14 July 2020


bhopal, Comprehensive arrangements ,commissioner , direct ,assembly session, Corona

भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र आगामी 20 जुलाई से शुरू होने जा रहा है, जो कि 24 जुलाई तक चलेगा। इस पांच दिवसीय सत्र में पांच बैठकें होंगी। विधानसभा सत्र के दौरान कोरोना से बचाव को लेकर की जा रही तैयारियों की भोपाल की कमिश्नर कवीन्द्र कियावत ने सोमवार को समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने बताया कि सत्र के दौरान कोरोना से बचाव के लिए व्यापक सुरक्षा प्रबंध किये जाएंगे। उन्होंने विधानसभा मुख्य भवन और परिसर के सैनिटाइजेशन, चिकित्सीय सुविधाएं, प्रवेश द्वारों पर थर्मल स्क्रीनिंग आदि के संबंध में आवश्यक निर्देश दिये ।संभागायुक्त कियावत ने कहा कि सत्र के दौरान थर्मल स्क्रीनिंग, सैनिटाइजेशन की व्यापक व्यवस्थाएं की जाए। बताया गया कि विधानसभा के मुख्य भवन के अंदर सीपीए और बाहर के परिसर का सैनिटाईजेशन नगर निगम द्वारा किया जाएगा। इसके अतिरिक्त विधायक विश्राम गृह परिसरों का भी नगर निगम सैनिटाईजेशन करेगा। मुख्य भवन के अंदर प्रवेश द्वार, शौचालय, कॉरीडोर में पैडल डिस्पेंशर सैनिटाईजेशन मशीन रखी जाएगी। विधानसभा के सभी प्रवेश द्वारों पर चिकित्सीय टीम द्वारा थर्मल थर्मामीटर और पल्स ऑक्सीमीटर से सभी लोगों की स्क्रीनिंग की जाएगी। मुख्य द्वार, वीआईपी गेट सहित सभी प्रवेश द्वारों पर कोरोना से बचाव एवं जागरूकता संबंधी पोस्टर्स, बैनर लगाएं। सत्र के दौरान विधानसभा भवन में सभी मॉस्क लगाये रखें यह सुनिश्चित किया जायेगा। अतिरिक्त संख्या में मॉस्क और सैनिटाइजर रखे जायेंगे ताकि आवश्यकता पडऩे पर विधानसभा सदस्यों को उपलब्ध कराया जा सके।कमिश्नर ने कहा कि विधानसभा सत्र के शुरू होने से पहले स्वास्थ्य विभाग ड्यूटी पर नियुक्त किये अधिकारी-कर्मचारियों की स्क्रीनिंग करेगा। जिला-प्रशासन अद्यतन जोखिम क्षेत्रों की सूची विधानसभा को उपलब्ध करायेगा, जिसे सूचना पटल पर चस्पा किया जाएगा। इससे जोखिम क्षेत्रों से आने वाले अधिकारी-कर्मचारी की सेवाएं नहीं ली जाएगी। बैठक के दौरान नगर निगम आयुक्त बीएस चौधरी कोलसानी, उपायुक्त अनिल कुमार द्विवेदी सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे। सार्वजनिक जगहों पर धरना-प्रदर्शन और अन्य गतिविधियां प्रतिबंधितवहीं, कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट अविनाश लवानिया ने सोमवार को दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा-144 के तहत प्रदत्त शक्तियों को प्रयोग में लाते हुए मध्यप्रदेश विधानसभा सप्तम सत्र 20 जुलाई से प्रारंभ होकर  24 जुलाई तक चलने वाले विधानसभा के मद्देनजर सत्र अवधि के दौरान विधानसभा भवन के आसपास धारा-144 अंतर्गत प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किये गये हैं। इस दौरान विभिन्न संगठनों, सार्वजनिक स्थान पर पांच से अधिक व्यक्ति एकत्रित एवं राजनैतिक दलों द्वारा प्रदर्शन एवं जुलूस प्रतिबंधित रहेगा। जारी आदेश में कोई भी व्यक्ति किसी जुलूस/प्रदर्शन का न तो निर्देशन करेगा और न उसमें भाग लेगा और न कोई सभा आयोजित करेगा। कोई व्यक्ति सार्वजनिक स्थान पर शस्त्र या अन्य धारदार हथियार साथ लेकर नहीं चलेगा। इसके अतिरिक्त लिली टॉकिज से रोशनपुरा, बाणगंगा रोड से राजभवन एवं जनसम्पर्क कार्यालय, पुराना पुलिस अधीक्षक कार्यालय से शब्बन चौराहा, स्लाटर हाउस रोड मैदामिल से बोर्ड ऑफिस चौराहा, झरनेश्वर मंदिर चौराहा से ठण्डी सडक़ से 74 बंगले से होते हुए रोशनपुरा चौराहा क्षेत्र में 20 जुलाई से 24 जुलाई तक प्रात: काल 6 बजे से रात्रि 12 बजे तक मार्ग/क्षेत्रों में प्रभावशील रहेगा। इस अवधि के दौरान कोई भी व्यक्ति प्रतिबंधित क्षेत्रों में पुतलादहन, धरना, आंदोलन नहीं कर सकेगा।

Dakhal News

Dakhal News 13 July 2020


bhopal, 83 new cases , corona found, 121 dead

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में शासन-प्रशासन के तमाम प्रयासों के बावजूद संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। रविवा को यहां 102 नये संक्रमित मरीज मिले थे, जबकि सोमवार को भी यहां कोरोना के 83 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद भोपाल में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 3673 हो गई है। वहीं, अब तक भोपाल में कोरोना से 121 लोगों की मौत हो चुकी है।भोपाल सीएमएचओ कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक, सोमवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में 83 नये पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 3673 हो गई है। इनमें से अब तक 121 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 2722 मरीज पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 829 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।बता दें कि भोपाल में अनलॉक के बाद कोरोना का संक्रमण तेजी से फैला है। यहां एक जून के बाद प्रतिदिन औसत 50 मरीज मिल रहे हैं। बीते पांच दिनों से यह संख्या 80 के पार पहुंच गई है। भोपाल में रविवार को पहली बार संक्रमित मरीजों का आंकड़ा सौ के पार पहुंचा था। यहां एक दिन में 102 नये मरीज मिले थे। इससे पहले शुक्रवार को यहां 86 और शनिवार को 90 नये संक्रमित मिले थे। इधर, लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए जिला प्रशासन ने शहर में फिर से लॉकडाउन लगाने की तैयारी की है। रविवार को एक दिन का लॉकडाउन रखने के बाद भोपाल में फिर से एक सप्ताह का लॉकडाउन लग सकता है। इस संबंध में आगामी बैठक में निर्णय लिया जा सकता है।

Dakhal News

Dakhal News 13 July 2020


bhopal,Weather department, warns heavy rain, several distric

भोपाल। पिछले कुछ दिनों से धूप और उमस झेल रहे प्रदेश के लोगों को जल्द ही राहत मिलने वाली है। मौसम विभाग ने प्रदेश के अधिकतर जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। विभाग ने सोमवार से प्रदेश के कुछ स्थानों पर बरसात की गतिविधियों में तेजी आने की संभावना जताई है।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि सोमवार को एक नया सिस्टम बनने जा रहा है, जिसके बाद एमपी में दोबारा झमाझम बारिश का दौर शुरु हो जाएगा। हालांकि अभी भी वातावरण में नमी बरकरार है, जिसके चलते प्रदेश के कई जिलों में कही हल्की तो कही तेज बारिश हो रही है। आज भी मौसम विभाग ने कई जिलों में बारिश की चेतावनी जारी की है।    मौसम विभाग की माने तो सोमवार से द्रोणिका करीब डेढ़ किमी ऊपर आ जाएगी, उसके बाद से प्रदेश में बारिश होने लगेगी। शाम के बाद बारिश का दौरा शुरू हो जाएगा। उसके बाद 14 और 15 को प्रदेश के लगभग सभी संभागों में झमाझम का दौर फिर से शुरु हो जाएगा। विभाग की माने तो 13-14 जुलाई के आसपास बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। इस सिस्टम के आगे बढऩे पर 15 जुलाई के बाद मानसून के एक बार सक्रिय होने के आसार हैं।   इन जिलों में भारी बारिश का अलर्टमौसम विभाग के अनुसार, अगले 24 घंटों के दौरान रीवा, सतना, छिंदवाड़ा, सिवनी, बालाघाट, पन्ना और बैतूल जिलों में भारी बारिश होने के आसार हैं। वहीं भोपाल, होशंगाबाद, रीवा, सागर, ग्वालियर और चंबल संभागों के जिलों उज्जैन रतलाम मंदसौर नीमच में और इंदौर व धार जिले में गरज-चमक के साथ बारिश और बिजली चमकने की चेतावनी भी जारी की गई है। विभाग की माने तो वर्तमान में उत्तर-पूर्वी मप्र. से मराठवाड़ा तक एक द्रोणिका लाइन(ट्रफ) बनी हुई है। इससे अरब सागर से नमी आ रही है। वही पश्चिम बंगाल के आसपास एक ऊपरी हवा का चक्रवात बन गया है। इसके प्रभाव से सोमवार से प्रदेश में बरसात की गतिविधियों में तेजी आएगी। विशेषकर उत्तरी मध्य प्रदेश में कहीं-कहीं अच्छी बरसात की भी संभावना है।

Dakhal News

Dakhal News 13 July 2020


bhopal, Van Vihar National Park , Zoo , closed on Sunday

भोपाल । कोरोना संक्रमण के संभावित प्रसार की रोकथाम की दृष्टि से भोपाल कलेक्टर द्वारा रविवार को जिले में संपूर्ण लॉकडाउन संबंधी आदेश के परिपेक्ष्य में वन विहार राष्ट्रीय उद्यान एवं जू रविवार को पर्यटन के लिये बंद रहेंगे। पूर्व आदेशानुसार अन्य दिवसों में शुक्रवार को छोड़कर पर्यटकों के लिए वन विहार राष्ट्रीय उद्यान एवं जू भ्रमण के लिये प्रात: 6:30 से दोपहर 12 तक तथा अपरान्ह में 3 बजे से 6:30 बजे तक खुला रहेगा।    सभी पर्यटकों को मास्क लगाना, सोशल डिस्टेंसिंग, सेनेटाइजेशन करना आदि एवं केन्द्र तथा राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर कोरोना वायरस से बचाव के लिए जारी किये गये अन्य सभी दिशा-निर्देशों का पालन करना अनिवार्य होगा।

Dakhal News

Dakhal News 11 July 2020


bhopal, 641 people died , corona, MP,number of infected ,16,823

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना की ग्रोथ रेट देश में सबसे कम और संक्रमित मरीजों का रिकवरी रेट 76 फीसदी से अधिक है। इसके बावजूद यहां नये मामलों में कमी नहीं आ रही है। यहां अब छह जिलों में कोरोना के 166 नये मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 16 हजार 823 हो गई है। वहीं, प्रदेश में कोरोना से अब तक 641 लोगों की मौत हो चुकी है।इंदौर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने शनिवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा शुक्रवार देर रात जारी 1759 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट में 89 नये पॉजिटिव मिले हैं। इसके बाद इंदौर में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 5176 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से तीन लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। यहां अब कोरोना से मरने वालों की संख्या 261 हो गई है। इसके अलावा शिवपुरी में 33, भिण्ड में 15, खंडवा में 10, नीमच में 10 और बड़वानी में नौ नये संक्रमित मिले हैं।इन 166 नये मामलों के साथ अब राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 16,823 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 5176, भोपाल 3335, उज्जैन 876, मुरैना 844, ग्वालियर 830, नीमच 490, जबलपुर 496, सागर 436, बुरहानपुर 421, खंडवा 389, खरगौन 344, भिण्ड 337, देवास 246, धार 191, रतलाम 205, मंदसौर 164, बड़वानी 165, रायसेन 114, राजगढ़ 113, श्योपुर 99, बैतूल 97, शाजापुर 94, छिंदवाड़ा 72, रीवा 71, टीकमगढ़ 101, छतरपुर 63, विदिशा 76, पन्ना 57, दमोह 54, शिवपुरी 146, अशोकनगर 58, दतिया 60, हरदा 62, सतना 48, होशंगाबाद 48, बालाघाट 47, नरसिंहपुर 36, डिंडौरी 31, अनूपपुर 31, कटनी 29, गुना 29, शहडोल 28, सीहोर 37, झाबुआ 39, सीधी 28, सिंगरौली 28, आगरमालवा 23, सिवनी 19. निवाड़ी 12, उमरिया 11, अलीराजपुर 11 और मंडला 06 मरीज शामिल हैं।वहीं, इंदौर में हुई तीन मौतों के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 641 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 261, भोपाल 115, उज्जैन 71, बुरहानपुर 23, खंडवा 17, जबलपुर 14, खरगौन 15, ग्वालियर 03, धार 08, मंदसौर 09, नीमच 08, सागर 22, देवास 10, रायसेन 05, होशंगाबाद 04, सतना 02, आगरमालवा 02, झाबुआ 01, अशोकनगर 01, शाजापुर 03, दतिया 01, छिंदवाड़ा 02, सीहोर 02, उमरिया 01, रतलाम 06, बड़वानी 03 मुरैना 05, राजगढ़ 06, श्योपुर 02, टीमकगढ़ 05, रीवा 01, गुना 02, हरदा 03, कटनी 03, सीधी 01, अलीराजपुर 01 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है।हालांकि, राज्य में अब तक 12,481 मरीज कोरोना से जंग जीतने के बाद अपने घर पहुंच गए हैं। अब प्रदेश में कोरोना के सक्रिय प्रकरण 3674 हैं।

Dakhal News

Dakhal News 11 July 2020


indore,44 new cases , corona patients , increasing

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। हालांकि, यहां संक्रमित मरीज तेजी से स्वस्थ भी हो रहे हैं, लेकिन नये मामलों में कमी नहीं आ रही है। अब यहां 44 नये मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 5087 हो गई है। वहीं, इंदौर में अब तक 258 लोगों की मौत हो चुकी है।इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने शुक्रवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा गुरुवार देर रात 1461 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई, जिसमें 44 पॉजिटिव और शेष निगेटिव आई हैं। इन 44 नये मरीजों के साथ अब जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 5087 पहुंच गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से तीन लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। मृतकों में 59 वर्षीय और 60 वर्षीय दो पुरुषों के साथ एक 63 वर्षीय महिला भी शामिल है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 258 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में अब तक 3,946 संक्रमित मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब जिले में सक्रिय मरीजों की संख्या 883 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 10 July 2020


bhopal, Ibrahim Ganj area, will be locked ,week on Sunday

भोपाल। कलेक्टर और जिला दंडाधिकारी अविनाश लावनिया ने क्षेत्र की जनता की सुरक्षा और कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए राजधानी भोपाल के हनुमान गंज क्षेत्र के इब्राहिम गंज क्षेत्र में रविवार, 12 जुलाई से आगामी 19 जुलाई तक एक सप्ताह का लॉकडाउन करने के आदेश जारी किये हैं।जारी आदेश के मुताबिक, इब्रहिम गंज क्षेत्र में 12 जुलाई सुबह 5 बजे से 19 जुलाई रविवार रात्रि 10 बजे तक क्षेत्र की सीमाएं सील रहेंगी, किसी भी व्यक्ति को घर से निकलने की अनुमति नहीं होगी, मेडिकल आपातकाल को छोडक़र दुकानें और संस्थान बन्द रहेंगे। बेरिकेटिंग कर क्षेत्र की सीमाओं को बन्द रखा जाएगा। इब्रहिम गंज क्षेत्र की सीमाएं संबंधित एसडीएम और नगर पुलिस अधीक्षक द्वारा निर्धारित की जाएंगी, मेडिकल आपातकाल और शव यात्रा को छोडक़र अन्य किसी भी कारण से बाहर निकलने की अनुमति नहीं होगी। आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई नगर निगम के द्वारा की जाएगी।      कलेक्टर लवानिया ने शुक्रवार को हिन्दुस्थान समाचार से बातचीत में बताया कि इस क्षेत्र में लागातर बढ़ते कोविड संक्रमण और मास्क नहीं लगाने, दो गज की दूरी के नियम का पालन नहीं करने, बिना काम के सार्वजनिक जगहों पर घूमने के कारण ऐसी स्थिति उत्पन्न हो गई है, जिससे क्षेत्र की जनता को संक्रमण से बचाने के लिए सम्पूर्ण लॉकडाउन का निर्णय लिया गया है।

Dakhal News

Dakhal News 10 July 2020


bhopal, not getting ,unlocked, 59 new cases ,Corona, found again

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में अनलॉक के बाद से कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है। लॉकडाउन के दौरान यहां मरीजों की संख्या बहुत कम थी, जबकि एक जून के बाद यहां प्रतिदिन 50 से 70 के बीच संक्रमित मरीज मिल रहे हैं। गुरुवार को भी यहां 59 नये संक्रमित मिले हैं। इसके बाद यहां कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 3337 हो गई है। वहीं, अब तक राजधानी में 115 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है।मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक, गुरुवार को सुबह प्राप्त रिपोर्ट में 59 नये संक्रमित मिले हैं। इससे पहले बुधवार की रात भी यहां 53 पॉजिटिव मिले थे। इन्हें मिलाकर अब भोपाल में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 3337 हो गई है, जबकि यहां कोरोना से अब तक 115 लोगों की मौत हुई है। हालांकि, राहत की बात यह है कि अब तक भोपाल में 2541 व्यक्ति स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच चुके हैं और यहां सक्रिय मरीजों की संख्या साढ़े छह सौ है, जिनका उपचार जारी है।गौरतलब है कि भोपाल में लॉकडाउन के दौरान एक जून को संक्रमित मरीजों की संख्या 1511 थी, जबकि मृतकों का आंकड़ा 59 था। एक जून से लागू अनलॉक के बाद यहां औसत 50 मरीज रोज नये मिल रहे हैं, जिसके चलते एक महीने में संक्रमित मरीजों की संख्या दो गुनी से अधिक हो गई है और मरने वालों का आंकड़ा भी तेजी से बढ़ा है। भोपाल में बाजार खुलने के बाद लोग बेखौफ हो गए हैं और इसी का नतीजा देखने को मिल रहा है। कुल मिलाकर भोपाल को अनलॉक रास नहीं आ रहा है। इसीलिए सरकार ने पूरे प्रदेश में एक दिन लॉकडाउन रखने का निर्णय ले लिया है। अब पूरे प्रदेश में रविवार को लॉकडाउन रहेगा और इस दौरान पुलिस घर से बाहर निकलने वाले लोगों पर सख्त कार्रवाई करेगी।

Dakhal News

Dakhal News 9 July 2020


bhopal, Rainfall , state, second consecutive, year in July, rain expected, after July 15

भोपाल। मध्य प्रदेश में मानसून पर ब्रेक लग गया है। पिछले दो दिनों से राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में बारिश का दौर थम गया है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक अभी एक सप्ताह तक बरसात होने के आसार कम ही हैं। गुरुवार को सुबह से राजधानी भोपाल में तेज धूप निकली हुई है, जिससे गर्मी और उमस का एहसास हो रहा है।   मानसून के देश भर में छाने के बाद अचानक जुलाई माह में मानसून ब्रेक की स्थिति बनने से मौसम विज्ञानी भी हतप्रभ हैं। उनका कहना है कि अमूमन मानसून की बरसात थमने का दौर अगस्त माह में ही देखने में आता है, लेकिन जुलाई माह में इस तरह की स्थिति लगातार दूसरे वर्ष बनी है। पिछले वर्ष 13 जुलाई से वर्षा का दौर थम गया था। बुधिवार सुबह तक प्रदेश में इस सीजन की कुल 268.2 मिमी. बरसात हुई है। जो सामान्य बरसात (193.9 मिमी.) से 38 फीसद अधिक है।   मौसम विज्ञान केंद्र के पूर्व निदेशक डॉ. डीपी दुबे ने बताया कि उड़ीसा और आंध्र के तटीय क्षेत्र में बना कम दबाव का क्षेत्र झारखंड पर स्थिर रहकर कमजोर पड़ गया है। उसकी दिशा भी उत्तर भारत की तरफ हो गई है। इससे मप्र में अपेक्षाकृत बरसात नहीं हुई। दूसरा अरब सागर से आगे बढक़र कच्छ के आसपास बना कम दबाव का क्षेत्र भी दूसरी दिशा में कराची और अरब देशों की तरफ बढ़ रहा है।   इसके अतिरिक्त मानसून द्रोणिका भी हिमालय के तराई क्षेत्र की तरफ खिसकने लगी है। साथ ही वर्तमान में मप्र में भी कोई वेदर सिस्टम नहीं है। इस तरह की स्थिति को मानसून ब्रेक माना जाता है। डॉ. दुबे के मुताबिक मानसून ब्रेक की स्थिति अक्सर अगस्त माह में बनती है। जलवायु परिवर्तन में भी इसकी एक वजह हो सकती है।   15 जुलाई के बाद बारिश की उम्मीद   वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि 13 जुलाई के आसपास बंगाल की खाड़ी में मानसूनी हलचल शुरू होने के संकेत मिल रहे हैं। यदि वहां कम दबाव का क्षेत्र बनकर आगे बढ़ता है तो 15 जुलाई से मप्र में एक बार फिर बरसात का दौर शुरू हो सकता है। हालांकि, वर्तमान में हवाओं का रुख दक्षिण-पश्चिमी बना हुआ है। इस वजह से वातावरण में कुछ नमी आ रही है। इससे तापमान बढऩे पर स्थानीय स्तर पर गरज-चमक के साथ बौछारें भी पड़ सकती हैं।

Dakhal News

Dakhal News 9 July 2020


gwalior, Youth injured,  locust attack

ग्वालियर। ग्वालियर शहर के हजीरा थाना क्षेत्र में रेशम मिल में गुरुवार को सुबह टिड्डियों के दल ने युवक पर हमला कर दिया, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। युवक को अस्पताल में ले जाया गया, जहां चिकित्सकों द्वारा उसका उपचार किया गया।दरअसल, नगर में गुरुवार सुबह टिड्डियों के दल का अचानक हमला हुआ। इस दौरान लोग थाली-बर्तन बजाकर उन्हें भाग रहे थे। इसी दौरान हजारी थाना क्षेत्र के रेशम मिल के पास रहने वाला युवक श्रीकृष्ण परिहार भी अपने घर की छत पर पहुंचा और मच्छर मारने के इलेक्ट्रानिक बल्ले से टिड्डियों को भगाने लगा। इसी दौरान टिड्डियों का झुंड युवक पर टूट पड़ा। कई टिड्डियां उसके शरीर पर चिपक गई और उसे घायल कर दिया। परिजन उसे घायल हालत में लेकर अस्पताल पहुंचे, जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे छुट्टी दे दी गई। फिलहाल युवक की हालत ठीक है, लेकिन टिड्डियों के हमले से क्षेत्र में हडक़म्प मच गया।

Dakhal News

Dakhal News 9 July 2020


indore, Beauty Parlor operator, 17-year-old, lover murdered , strangulation

इंदौर। मध्य प्रदेश में अपराध कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं। आए दिन हत्या और विवाद के मामले सामने आ रहे हैं। अभी रतलाम में प्रेमी द्वारा ब्यूटी पार्लर में दुल्हन की हत्या का मामला पूरी तरह से शांत भी नहीं हुआ था कि इंदौर में एक ओर ऐसा ही दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक ब्यूटी पार्लर संचालिका को उसके 17 साल छोटे प्रेमी ने मंगलवार रात दरांते से गला रेत कर हत्या कर दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।   जानकारी अनुसार लसूडिय़ा थाना क्षेत्र स्थित सैटेलाइट ग्रीन टाउनशिप में रहने वाली उषा ठाकुर (45) घर के पास ही ब्यूटी पार्लर संचालित करती थी। महिला का 10 साल पहले पति से तलाक हो गया था। महिला के दो बेटे (28 वर्षीय राहुल और 20 वर्षीय रोहन) हैं। बड़े बेटे की शादी हो गई है। टीआई इंद्रमणि पटेल ने बताया कि महिला का चार साल पहले रोहित (28 वर्ष) से परिचय हुआ था। इसके बाद दोनों में बातचीत का सिलसिला शुरू और दोनों को एक दूसरे से प्रेम हो गया। दोनों के बीच चार साल से संबंध थे लेकिन पिछले कुछ दिनों से रोहित परेशान रहने लगा था। उसे लग रहा था कि महिला उसे धोखा दे रही है।   मंगलवार शाम रोहित शराब पीकर आया और ब्यूटी पार्लर में घुसकर बहस करने लगा। विवाद इतना बड़ गया कि आरोपित ने उषा का गला रेत दिया। महिला की चीख सुन आस पास के लोग मौके पर जमा हो गए। इस बीच किसी ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपित के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है। बताया जा रहा है कि उषा ठाकुर से सबंध के चलते रोहित पिछले चार साल से अपने परिवार से अलग रह रहा था।

Dakhal News

Dakhal News 8 July 2020


bhopal,287 new cases, corona, MP, three districts

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना की ग्रोथ रेट देश में सबसे कम और संक्रमित मरीजों का रिकवरी रेट 76 फीसदी से अधिक होने के बावजूद यहां नये मामलों में कमी नहीं आ रही है। अनलॉक-2 में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। बीते तीन दिनों से राज्य में नये मीरजों का आंकड़ा 300 के पार पहुंच रहा है। अब यहां अब तीन जिलों में 227 नये मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हुई है। इसके बाद राज्य में संक्रमितों की संख्या 15 हजार 854 हो गई है। वहीं, प्रदेश में कोरोना से अब तक 625 लोगों की मौत हो चुकी है।    इंदौर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने बुधवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा मंगलवार देर रात 1545 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी गई, जिनमें 44 नये पॉजिटिव मिले हैं, जबकि कोरोना से तीन लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। इसके अलावा मुरैना में 115 और ग्वालियर में 65 नये संक्रमित मरीज मिले हैं।   इन 227 नये मामलों के साथ अब राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 15,854 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 4998, भोपाल 3155, उज्जैन 869, मुरैना 833, ग्वालियर 709, नीमच 469, जबलपुर 451, सागर 423, बुरहानपुर 416, खंडवा 358, खरगौन 328, भिण्ड 305, देवास 241, धार 186, रतलाम 190, मंदसौर 143, बड़वानी 150, रायसेन 113, राजगढ़ 106, श्योपुर 92, बैतूल 83, शाजापुर 71, छिंदवाड़ा 67, रीवा 68, टीकमगढ़ 74, छतरपुर 60, विदिशा 67, पन्ना 55, दमोह 53, शिवपुरी 83, अशोकनगर 55, दतिया 47, हरदा 56, सतना 45, होशंगाबाद 44, बालाघाट 42, नरसिंहपुर 34, डिंडौरी 31, अनूपपुर 29, कटनी 27, गुना 25, शहडोल 24, सीहोर 29, झाबुआ 26, सीधी 27, सिंगरौली 21, आगरमालवा 19, सिवनी 17. निवाड़ी 11, उमरिया 11, अलीराजपुर 09 और मंडला 06 मरीज शामिल हैं।    वहीं, इंदौर में हुई तीन मौतों के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 625 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 252, भोपाल 113, उज्जैन 71, बुरहानपुर 23, खंडवा 17, जबलपुर 14, खरगौन 15, ग्वालियर 03, धार 08, मंदसौर 09, नीमच 07, सागर 22, देवास 10, रायसेन 05, होशंगाबाद 04, सतना 02, आगरमालवा 02, झाबुआ 01, अशोकनगर 01, शाजापुर 03, दतिया 01, छिंदवाड़ा 02, सीहोर 02, उमरिया 01, रतलाम 06, बड़वानी 03 मुरैना 05, राजगढ़ 06, श्योपुर 02, टीमकगढ़ 03, रीवा 01, गुना 02, हरदा 03, कटनी 03, सीधी 01 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है। हालांकि, राज्य में अब तक 11,768 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच चुके हैं। अब प्रदेश में कोरोना के सक्रिय प्रकरण 3464 हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 8 July 2020


bhopal, 620 people died, corona ,MP, 15469 infected

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना की ग्रोथ रेट देश में सबसे कम और संक्रमित मरीजों का रिकवरी रेट 76 फीसदी से अधिक होने के बाद भी यहां नये मामलों में कमी नहीं आ रही है। अब यहां चार जिलों में 185 नये पॉजिटिव मिले हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हुई है। इसके बाद राज्य में संक्रमितों की संख्या 15 हजार 469 हो गई है। वहीं, प्रदेश में कोरोना से अब तक 620 लोगों की मौत हो चुकी है।   इंदौर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने मंगलवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा सोमवार देर रात 1682 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई, जिसमें 78 नये पॉजिटिव मिले हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 4954 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से तीन लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 249 हो गई है। इसके अलावा ग्वालियर में 61, मुरैना में 36 और बड़वानी में कोरोना के 10 नये मामले सामने आए हैं।   इन 185 नये मामलों के साथ राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 15,469 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 4954, भोपाल 3110, उज्जैन 869, मुरैना 718, ग्वालियर 644, नीमच 466, जबलपुर 444, सागर 422, बुरहानपुर 413, खंडवा 344, खरगौन 318, भिण्ड 296, देवास 239, धार 184, रतलाम 182, मंदसौर 141, बड़वानी 147,  रायसेन 112, राजगढ़ 104, श्योपुर 89, बैतूल 81, शाजापुर 70, छिंदवाड़ा 66, रीवा 68, टीकमगढ़ 67, छतरपुर 60, विदिशा 63, पन्ना 55, दमोह 52, शिवपुरी 73, अशोकनगर 52, दतिया 47, हरदा 56, सतना 45, होशंगाबाद 43, बालाघाट 40, नरसिंहपुर 34, डिंडौरी 31, अनूपपुर 29, कटनी 26, गुना 25, शहडोल 24, सीहोर 27, झाबुआ 22, सीधी 26, सिंगरौली 20, आगरमालवा 18, सिवनी 17. निवाड़ी 11, उमरिया 11, अलीराजपुर 08 और मंडला 06 मरीज शामिल हैं।   इंदौर में हुई तीन लोगों की मौत के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 620 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 249, भोपाल 112, उज्जैन 71, बुरहानपुर 23, खंडवा 17, जबलपुर 14, खरगौन 15, ग्वालियर 03, धार 08, मंदसौर 09, नीमच 07, सागर 22, देवास 10, रायसेन 05, होशंगाबाद 04, सतना 02, आगरमालवा 02, झाबुआ 01, अशोकनगर 01, शाजापुर 03, दतिया 01, छिंदवाड़ा 02, सीहोर 02, उमरिया 01, रतलाम 06, बड़वानी 03 मुरैना 05, राजगढ़ 06, श्योपुर 02, टीमकगढ़ 02, रीवा 01, गुना 02, हरदा 03, कटनी 03, सीधी 01 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है। हालांकि, स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के अनुसार, राज्य में अब तक 11,579 मरीज कोरोना से जंग जीत चुके हैं और स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब प्रदेश में कोरोना के सक्रिय प्रकरण 3273 हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 7 July 2020


singroli, Three injured, including Inspector ,sand mafia attack , mineral staff

सिंगरौली। जिले के बरगवां थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम राजासरई के पास बीती रात अवैध रेत पकडऩे गए खनिज अमले पर रेत माफिया ने हमला कर दिया। अचानक हुए इस हमले में विभाग के एक इंस्पेक्टर सहित तीन लोग घायल हो गए। घायलों को अस्पताल में भर्ती किया गया है, जहां उनका उपचार जारी है। पुलिस फिलहाल मामले की जांच में जुटी है।   बरगवां थाना पुलिस के अनुसार, अवैध रेत खनन की सूचना मिलने के बाद खनिज विभाग की टीम रविवार को देर रात ग्राम राजासरई पहुंची थी, जहां रेत माफिया ने टीम पर अचानक हमला कर दिया, जसमें खनिज इंस्पेक्टर, एक सैनिक और चालक घायल हो गये हैं। खनिज इंस्पेक्टर कपिल मुनि शुक्ला को सिर पर लगी गंभीर चोट लगी है। तीनों घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हमला करने के बाद आरोपित मौके से भाग गए। पुलिस ने अज्ञात आरोपितों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है और हमलावरों की जानकारी जुटाई जा रही है।

Dakhal News

Dakhal News 6 July 2020


ratlam, Police arrested, accused , killing bride, few hours

रतलाम। जिले के जावरा शहर सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र में रविवार को एक ब्यूटीपार्लर में 34 वर्षीय दुल्हन की गला रेतकर हत्या करने के मामले में पुलिस ने दो आरोपितों राम यादव एवं पवन पांचाल को गिरफ्तार किया है। यह दोनों आरोपित रतलाम निवासी हैं, जबकि मृतक दुल्हन शाजापुर की रहने वाली है, जिसका विवाह नागदा के युवक से जावरा में रविवार को होने वाला था।    एसपी गौरव तिवारी ने सोमवार को पुलिस कंट्रोल में आयोजित पत्रकार वार्ता में मामले का खुलासा करते हुए बताया कि सीसीटीवी कैमरे के दृश्य के आधार पर आरोपितों को पकडऩे में पुलिस को सफलता मिली है। दुल्हन सोनू यादव नाग-गागिन रोड़ शाजापुर की रहने वाली थी। वह रविवार को सुबह अपनी बहन रुचिका के साथ जावरा के स्टेशन रोड चौराहे स्थित एक ब्यूटी पार्लर पर मेकअप करने गई थी, जहां पार्लर मालिक हेमेन्त पाटीदार एवं उसकी सहायिका थी। दुल्हन की बहन रूचिका ने बताया कि मेकअप के दौरान दुल्हन के पास फोन आया और कहा कि मैं राहुल बोल रहा हूं और सोनू सेे बात कराओ। तब मैंने सोनू को फोन दे दिया। फोन पर क्या बात हुई वह रूचिका नहीं बता सकी। इसी बीच एक लड़का अंदर आया। थोड़ी देर वह पार्लर में बैठा और फिर अचानक उठकर जेब से चाकू निकालकर दीदी के गले पर वार कर गला रेत कर भाग गया।             रूचिका ने लड़के की वेशभूषा बताई और कहा कि मुंह पर उसने आधा कपड़ा बांध रखा था। तत्काल घायल सोनू को अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी मृत्यु हो गई। तब तक घटना की सूचना पुलिस को भी दे दी जा चुकी थी।     नगर पुलिस अधीक्षक प्रदीप राणावत ने आसपास के सीसीटीवी फूटेज का निरीक्षण किया, जिसमें दो व्यक्ति ब्यूटीपार्लर पर आते तथा एक व्यक्ति को ब्यूटीपार्लर में अंदर जाते हुए तथा कुछ देर बाद पुन: ब्यूटीपार्लर से दौड़कर निकलते हुए देखा। पुलिस ने तत्काल नाके बंदी करके दो आरोपितों में से एक 23 वर्षीय पवन पुत्र ईश्वरलाल पांचाल निवासी जाटो का वास रतलाम को बंजली हवाई पट्टी से रतलाम की ओर आते देखा, जो बाइक क्रमांक एमपी 43 बीटी 8979 पर बैठा हुआ था। संदिग्ध स्थिति में पाए जाने पर उससे पूछताछ की गई, उसने बताया कि मैं सुतारी का काम करता हूं।   पवन पांचाल ने बताया कि उसका साथी 27 वर्षीय राम यादव पुत्र राजेन्द्र यादव निवासी जाटो का वास रतलाम सोनू यादव से पिछले तीन वर्ष से प्रेम करता था और उससे शादी करना चाहता था। अचानक उसे सूचना मिली की सोनू की शादी अन्य जगह हो रही है, उसने तीन दिन पहले ही हत्या करने की योजना बनाई तथा जावरा पहुंचकर ब्यूटीपार्लर में उसकी हत्या कर दी। पवन ने राम यादव को घटना के बाद बांसवाड़ा की ओर छोड़कर आना बताया। साथ ही उसने राम यादव की टी-शर्ट को रास्ते में माही नदी के पास झाडिय़ों में फैंकना बताया।    पुलिस टीम को राम यादव की तलाशी के लिए बांसवाड़ा  तथा सांवरियाजी की ओर भेजा, तब सांवरियाजी मंदिर परिसर में आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपित रतलाम के सर्राफा बाजार स्थित के.टी. ज्वेलर्स पर नौकरी करता है। गिरफ्तारी के बाद राम यादव ने बताया कि उसका तीन वर्ष पहले सोनू यादव से परिचय हुआ था और वह उससे शादी करना चाहता था। वह डेढ़ वर्ष पहले भी सोनू यादव से शाजापुर में मिला था, वह सरस्वती स्कूल में अध्यापिका थी। उसके बाद भी कई बार मिलना बताया और वाट्सएप पर प्रतिदिन चर्चा की भी जानकारी दी।    एसपी ने बताया कि मृतिका सोनू यादव की शादी 2010 में उज्जैन में हुई थी। बाद में किसी कारणवश तलाक हो गया था। यह सरस्वती शिशु मंदिर शाजापुर में शिक्षिका का कार्य करती थी। माता-पिता के आग्रह पर चार दिन पहले ही उसका विवाह नागदा निवासी गौरव जैन से तय हुआ था। यह विवाह गौरव जैन के मामा जो जावरा में निवास करते हैं, उनके यहां होने जा रहा था। रविवार सुबह ही वह अपने परिवार के साथ जावरा पहुंची थी।    इस सनसनीखेज हत्याकांड का चंद घंटों में ही पवन पांचाल के साथ ही दूसरे आरोपित राम यादव को भी पुलिस अभिरक्षा में ले लिया गया। पुलिस अधीक्षक ने इस हत्या की गुत्थी को सुलझाने में शामिल पुलिस बल को पुरस्कृत करने की घोषणा की है। पुलिस ने हत्या का यह मामला धारा 302,450 के तहत दर्ज किया है। 

Dakhal News

Dakhal News 6 July 2020


ujjain,Lord Mahakal ,visited the city , Chandramouleshwar

उज्जैन। श्रावण मास के पहले सोमवार के अवसर पर उज्जैन स्थित विश्व प्रसिद्ध ज्योतिर्लिंग भगवान महाकालेश्वर ने चंद्रमोलेश्वर के रूप में नगर भ्रमण किया। सवारी के निकलने के पूर्व महाकालेश्वर मंदिर परिसर के सभामंडप में कलेक्टर आशीष सिंह ने सपत्निक भगवान महाकाल के  चंद्रमौलेश्वर स्वरूप का पूजन-अर्चन किया। इसके बाद कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक मनोज सिंह ने पालकी को कंधा देकर आगे बढ़ाया। पूजन-अर्चन शासकीय पुजारी पं. घनश्यालम शर्मा द्वारा सम्पन्न कराया गया। इस अवसर पर महाकालेश्वर मन्दिर प्रबंध समिति के प्रशासक सुजानसिंह रावत भी मौजूद थे।   भगवान महाकाल सोमवार शाम चार बजे चंद्रमौलेश्वर स्वरूप में पालकी में सवार होकर नगर भ्रमण पर निकले। पालकी जैसे ही महाकालेश्वबर मंदिर के मुख्य द्वार पर पहुंची, सशस्त्र पुलिस बल के जवानों द्वारा पालकी में सवार भगवान चंद्रमौलेश्वर को सलामी (गार्ड ऑफ ऑनर) दी गई। भगवान महाकाल की सवारी कोरोना वायरस संक्रमण के मद्देनजर परिवर्तित मार्ग से निकाली गई। महाकालेश्वर मन्दिर से सवारी हरसिद्धि मंन्दिर के सामने से होकर नृसिंह घाट पर झालरिया मठ होते हुए रामघाट पहुंची।   रामघाट पर हुआ भगवान महाकाल का जलाभिषेक   भगवान महाकालेश्वर की प्रथम सवारी सोमवार शाम को छह बजे परिवर्तित मार्ग से रामघाट पर पहुंची। यहां पर जलाभिषेक किया गया एवं आरती उतारी गई। पूजन एवं आरती में प्रदेश के केबिनेट मंत्री डॉ. मोहन यादव एवं सांसद अनिल फिरोजिया शामिल हुए। रामघाट पर सवारी के साथ संभागायुक्त आनन्द कुमार शर्मा, जिला एवं सत्र न्यायाधीश एसकेपी कुलकर्णी, आईजी राकेश गुप्ता, डीआईजी मनीष कपूरिया, कलेक्टर आशीष सिंह, पुलिस अधीक्षक मनोज सिंह सहित विभिन्न वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।    रामघाट के साथ-साथ दत्त अखाड़ा क्षेत्र से भी परम्परागत आरती एवं पूजन किया गया। सवारी इसके बाद पुन: रामघाट से रवाना होकर रामानुजकोट, हरसिद्धि मन्दिर होते हुए महाकालेश्वर मन्दिर पहुंची। रास्ते में हजारों श्रद्धालुओं ने भगवान के दर्शन लाभ लिये। हालांकि, कोरोना संक्रमण के चलते सवारी में ज्यादा लोग शामिल नहीं हुए, लेकिन दूर से लोगों ने भगवान के दर्शन कर अपने को कृतार्थ किया। बता दें कि महाकालेश्वहर भगवान की दूसरी सवारी 13 जुलाई सोमवार को निकलेगी, जिसमें पालकी में मनमहेश विराजित होंगे एवं हाथी पर चंद्रमौलेश्वर विराजित होकर नगर भ्रमण पर निकलेगी।

Dakhal News

Dakhal News 6 July 2020


bhopal, Shooting ,films and serials ,will start, MP Tourism, released advisory

भोपाल। मध्यप्रदेश की खूबसूरत लोकेशन्स पर एक बार फिर फिल्म्स, सीरियलस एवं वेब सीरिज की शूटिंग शीघ्र ही प्रारंभ हो सकेगी, इसके लिए मध्यप्रदेश पर्यटन निगम की ओर से फिल्मस एवं सीरियलस की शूटिंग के लिए एडवाइजरी जारी की गई है।   मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड की अपर प्रबंध संचालक सोनिया मीणा ने रविवार को बताया कि इस एडवाइजरी में भारत सरकार एवं मध्यप्रदेश शासन द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार नियम बनाये गये हैं। शासन द्वारा समय-समय पर संशोधित दिशा-निर्देश के साथ ही इस एडवाइजरी में भी संशोधन किया जा सकता है। एडवाइजरी को पब्लिक डोमेन में दिया गया है। शूटिंग के लिए बहुत सारे फिल्मस और सीरियल प्रोड्यूसर्स-डायरेक्टर्स काफी समय से कॉन्टेक्ट करके शूटिंग की अनुमति चाह रहे थे, वे अब टूरिज्म बोर्ड द्वारा दी गई गाइडलाइन का पालन करते हुए शूटिंग शुरू कर सकते हैं। इसके लिए स्थानीय जिला प्रशासन को सूचित करने के साथ ही अलग निर्देश होने पर उनका पालन करते हुए शूटिंग रिज्यूम की जा सकती है। निश्चित तौर पर प्रदेश में शूटिंग प्रारंभ होने से आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा मिलेगा, जिससे स्थानीय लोगों को रोजगार अवसर मिल सकेंगे।   शूटिंग पर होंगे सिर्फ 15 क्रू मेंबर्स, इक्विपमेंट्स रोज करना होंगे सेनिटाइज़ मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड के फिल्म फैसिलिटेशन सेल ने एडवाइज़री गाइडलाइन्स "टू री-स्टार्ट'' फिल्म शूटिंग इन मध्यप्रदेश’ जारी की है। गाइडलाइन के अनुसार शूटिंग में भाग लेने वाले लोगों को हेल्थ डिक्लेरेशन फॉर्म ‘एनेक्जर-ए’ (ANNEXURE ‘A’) भरना होगा। यह फॉर्म निर्माता द्वारा संबंधित पदाधिकारी को फिल्म शूट की अनुमति के लिए भी प्रस्तुत करना होगा। एडवाइजरी के अंतर्गत लोकेशन पर 15 क्रू मेंबर इनडोर शूटिंग के लिए तथा ऑउटडोर पर 30 व्यक्तियों की ही अनुमति होगी, साथ ही शूटिंग इक्विपमेंट्स रोजाना सेनिटाइज करना होंगे।   कोरोना पॉजिटिव मिलते ही लोकेशन होगी खाली -अगर कोई व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाया जाता है तो उस व्यक्ति को तुरंत आइसोलेट कर दिया जाएगा और शूटिंग लोकेशन को तुरंत खाली करा दिया जाएग। -उस व्यक्ति से जो भी कॉन्टेक्ट में आया होगा उस व्यक्ति की जांच की जाएगी और तुरंत पूरे क्रू मेंबर्स को आइसोलेट कर दिया जाएगा। -स्टूडियो लोकेशन को पूरी तरह से खाली करने के बाद सेनिटाइज करना अनिवार्य होगा। -सेफ्टी चेक्स पूरी तरह होने के बाद ही शूटिंग रिज्यूम हो सकेगी।   हैंडलिंग ऑफ इक्विपमेंट -शूटिंग से पहले और शूटिंग के बाद सभी इक्विपमेंट्स को रोजाना सेनिटाइज करना होगा। -हर डिपार्टमेंट के मेंबर्स को ब्रेक के दौरान इस्तेमाल किए गए गियर्स को डिसइनफेक्ट करना होगा। -एक ही इक्विपमेंट्स को दूसरे मेंबर्स द्वारा छूने की संख्या को कम करना होगा।प्राइवेट लोकेशन पर शूटिंग -अगर किसी प्राइवेट लोकेशन पर शूटिंग की जाती है, तो प्रॉपर्टी ऑनर के साथ एग्रीमेंट के तहत ही फिल्मांकन किया जा सकेगा। -लोकेशन को शूटिंग के पहले और शूटिंग के बाद में प्रॉपर तरीके से सेनिटाइज़ करना होगा। -शूटिंग लोकेशन पर किसी भी बाहरी व्यक्ति को एंट्री नहीं होगी एवं लोकेशन्स पर शूटिंग देखने हेतु भीड़-भाड़ न हो यह भी सुनिश्चित किया जाएगा।   शूटिंग के दौरान हेल्थ और सेफ्टी मेज़र्स -शूटिंग के दौरान बार-बार हाथ धोना होगा और हैंड सैनिटाइज़र का इस्तेमाल भी करना होगा। -फेस कवर मास्क शूटिंग लोकेशन पर अनिवार्य होगा। -पूरी कास्ट और क्रू मेंबर को शूटिंग लोकेशन पर अपने फोन में आरोग्य सेतु एप इंस्टॉल करना अनिवार्य होगा। -शूटिंग के समय एक नोडल पर्सन और हेल्थ रिप्रेजेंटेटिव डॉक्टर के साथ फिल्म लोकेशन पर अपॉइंट करना होगा।   कास्ट और क्रू मैनेजमेंट के लिए रूल्स -सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखने के लिए एक लोकेशन पर 15 लोग इंडोर शूटिंग के लिए और आउटडोर शूटिंग में सिर्फ 30 लोगों को ही अनुमति होगी। -शूटिंग लोकेशन पर सिर्फ उन लोगों को रहने की अनुमति होगी जो परफेक्टली आईडेंटिफाइड होंगे चाहे वह एक्टर हो एक्टे्स हो या टेक्नीशियन। -शूटिंग लोकेशन में एंट्री से पहले आईआर थर्मोमीटर से बुखार चेक किया जाएगा अगर 37.3 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा बुखार है तो आइसोलेट होकर रहना होगा। -फिल्मिंग लोकेशन पर सिर्फ लिमिटेड एसेंशियल सर्विसेज ही अलाउड (allowed) होंगी। -मेकअप हेयर ड्रेसिंग और ड्रेस अप एक्टिविटी के लिए प्रोटेक्टिव मेज़र्स का ध्यान रखना होगा।

Dakhal News

Dakhal News 5 July 2020


bhopal,Meteorological Department, issued alert ,heavy rain warning,22 districts

भोपाल। मध्यप्रदेश में मानसून अपना असर दिखा रहा है। प्रदेश के कई जिलों से बारिश की खबरें आ रही है। राजधानी भोपाल में शनिवार रात को गरज चमक के साथ बारिश की बौछारे गिरी। वही रविवार सुबह से आसमान में बादल छाए हुए हैं और रिमझिम बारिश भी हो रही है। हालांकि, बादल छाने के बाद भी उमस ने परेशान कर दिया है। मौसम विभाग ने एक बार फिर भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। इसके लिए 22 जिलों को अलर्ट किया गया है।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि मानसून ट्रफ प्रदेश में ग्वालियर, सतना से होते हुए बंगाल की खाड़ी तक जा रहा है। इसी तह पूर्वी उत्तर प्रदेश, पश्चिमी गुजरात समेत आससपास कई सिस्टम बने हुए हैं। बंगाल की खाड़ी और अरब सागर दोनों ओर से नमी मिल रही है। इन सबके असर के चलते पूर्वी और पश्चिमी मध्यप्रदेश समेत राजधानी में अगले दो तीन दिनों तक अच्छी बारिश की संभावना है। इसके अलावा लगातार बारिश से तापमान में भी गिरावट का दौर जारी है। भोपाल में न्यूनतम तापमान 25.9 डिग्री दर्ज किया गया। दिन चढऩे के साथ ही बारिश थम गई है। इस बीच लोगों को गर्मी और उमस से राहत मिली है। दोपहर बाद एक बार फिर बादल छाए और शाम पांच बजे से बौछारें पडऩी शुरू हो गई, जो रुक-रुककर रात तक जारी रही।   यहां गिर सकती है बिजलीमौसम विभाग ने अपने बुलेटिन में कहा है कि प्रदेश के रीवा और शहडोल संभागों के साथ ही छिंदवाड़ा, सिवनी, बालाघाट, बैतूल, खरगौन, धार, इंदौर, रतलाम, उज्जैन, देवास, शाजापुर, आगर मालवा और मंदसौर जिलों में भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग ने इसके लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है।   इन जिलों में बारिश का दौरमौसम विभाग के ताजा बुलेटन के मुताबिक प्रदेश के शहडोल, जबलपुर, इंदौर और उज्जैन संभागों के जिलों में तथा रीवा, सागर, भोपाल, होशंगाबाद, ग्वालियर और चंबल संभागों के जिलों में बारिश होगी। इसके अलावा इनमें से कुछ जिलों में गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ सकती हैं।

Dakhal News

Dakhal News 5 July 2020


ratlam, Bride killed ,makeup, beauty parlor,Javra

रतलाम। जिले के जावरा नगर में रविवार सुबह मेकअप कराने के लिए ब्यूटी पार्लर गई दुल्हन की एक अज्ञात युवक ने गला रेतकर हत्या कर दी और मौके से फरार हो गया। सूचना मिलने पर जावरा थाना पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू की। आरोपित की तलाश में जगह-जगह दबिश दी जा रही है।    सीएसपी पीएस राणावत ने बताया कि शाजापुर निवासी कमलसिंह यादव की 24 वर्षीय पुत्री सोनू यादव की रविवार को उज्जैन के नागदा निवासी गौरव जैन के साथ शादी होने वाली थी। शादी की सभी तैयारियां पूरी हो चुकी थीं। दुल्हन अपने परिवार के साथ रविवार सुबह ही जावरा पहुंची थी। यहां वह अपनी बहन के साथ  तैयार होने और मेकअप कराने के लिए ब्यूटी पार्लर पहुंची थी। इसी दौरान एक अज्ञात युवक वहां पहुंचा और ब्यूटी पार्लर में घुसकर धारदार हथियार से दुल्हन का गला रेत कर दिया। अचानक हुए इस हमले से वहां मौजूद सभी महिलाएं घबरा गई तब तक आरोपित वहां से फरार हो गया। ब्यूटी पार्लर में मौजूद महिलाओं ने पुलिस को सूचना देकर दुल्हन सोनू यादव को अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और अज्ञात आरोपित के खिलाफ प्रकरण दर्ज मामले की जांच शुरू की।   सीएसपी राणावत के अनुसार, पुलिस ने मृतक के शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है और हमला की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस ने ब्यूटी पार्लर और आसपास के क्षेत्रों से सीसीटीवी फुटेज खंगाले हैं, उनकी मदद से आरोपित की तलाश की जा रही है। पूरे क्षेत्र की नाकाबंदी कर दी गई है और पुलिस जगह-जगह दबिश दे रही है। उन्होंने कहा है कि प्रथमदृष्टया मामला प्रेस प्रसंग का लग रहा है, लेकिन जांच के बाद ही मामले का खुलासा हो सकता है। आरोपित की गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं। इधर, दुल्हन की हत्या के बाद परिवार में शादी की खुशियां मातम में बदल गईं।

Dakhal News

Dakhal News 5 July 2020


bhopal, Rapidly growing ,corona infected, after unlocked, 60 new patients

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल को अनलॉक रास नहीं आ रहा है। यहां लॉकडाउन के दौरान कोरोना के पॉजिटिव मरीजों की संख्या बहुत कम थी, लेकिन अनलॉक होने के बाद संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है। शुक्रवार को यहां 53 नये मामले सामने आए थे, जबकि शनिवार को सुबह फिर यहां 60 नये पॉजिटिव मिले हैं।   भोपाल सीएमएचओ कार्यालय द्वारा जानकारी दी गई है कि शनिवार को मिली जांच रिपोर्ट में 60 नये संक्रमित मरीज मिले हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 3252 हो गई है, जबकि भोपाल में अब तक कोरोना से 105 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि राजधानी भोपाल में अब तक 2366 मरीज पूरी तरह स्वस्थ हो गए हैं और कोरोना को मात देकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 462 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।   बता दें कि लॉकडाउन के दौरान भोपाल में संक्रमित मरीज कम मिल रहे हैं। लॉकडाउन की दो माह की अवधि में यहां एक जून को संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 1511 थी, जबकि 59 लोगों की मौत हुई थी, लेकिन एक जून को अनलॉक होने के बाद एक माह की अवधि में यहां संक्रमितों की संख्या तेजी से बढक़र दोगुनी से अधिक हो गई है।

Dakhal News

Dakhal News 4 July 2020


murena, Health , Chambal Divisional Commissioner ,corona,  Kill Corona

मुरैना। मुरैना में एक सप्ताह से निरंतर बढ़ रहे कोरोना मरीजों तथा किल कोरोना अभियान की समीक्षा आज आयुक्त चम्बल संभाग आयुक्त ने की गई। इसमें चम्बल संभाग आयुक्त आरके मिश्रा तथा स्वास्थ्य आयुक्त संजय गोयल, डीआईजी पुलिस चम्बल राजेश हिंगडक़र सहित कलेक्टर, एसपी व जिला प्रशासन, स्वास्थ्य अधिकारी भी शामिल हुये। चम्बल संभाग आयुक्त रविन्द्र कुमार मिश्रा ने बताया कि मुरैना में बढ़ते मरीजों के कारण आईसोलेशन बेड की संख्या 800 से लेकर 1000 तक कर दी गई है। गंभीर मरीजों के लिये सुविधायें बढ़ाने पर भी योजना बनी। वहीं किल कोरोना अभियान के तहत हो रहे सर्वे में 5 दिवस के दौरान छिपे हुये बीमार मरीजों के सामने आने की संभावना है। कफ्र्यू के साथ नियमों का पालन कराने के लिये कड़ाई आरंभ की जायेगी। लगभग दो घंटे तक चली इस बैठक में किसी भी प्रकार कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिये उपायों पर विचार हुआ है। सर्वे एप में डाटा फिडिंग पर जोर दिया जायेगा। वहीं प्रशासन ने माना है कि जितनी तेजी से केश बढ़े हैं रिकवरी भी उतनी ही तेजी से हुई है।    मुरैना में बाहर से खरीददारी करने आये लोगों के सम्पर्क में आये स्थानीय दुकानदारों व उनके कर्मचारियों में संक्रमण उत्पन्न हुआ है। इससे बढ़े कोरोना संक्रमित लोगों का हाल-चाल जानने के लिये आज दोपहर में मध्यप्रदेश शासन के स्वास्थ्य आयुक्त संजय गोयल जिला चिकित्सालय के आईसोलेशन वार्ड में पहुंचे। वहां उन्होंने मरीजों तथा पैरामेडिकल स्टाफ से स्थिति की जानकारी ली। स्वास्थ्य आयुक्त संजय गोयल ने बताया कि वह आईसोलेशन वार्ड तथा किल कोरोना सर्वे अभियान की गतिविधियों को परखने आये हैं। उन्होंने शहर के कन्टोनमेंट क्षेत्र पीपल वाली माता पर पहुंचकर किल कोरोना अभियान के सर्वे का जायजा लिया। श्री गोयल ने सर्वे दल तथा रहवासियों से स्वास्थ्य व सर्वे की जानकारी ली, जिससे वह संतुष्ट हुये। उनके साथ मुरैना कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास, पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया सहित प्रशासन, पुलिस व स्वास्थ्य विभाग का अमला था। 

Dakhal News

Dakhal News 2 July 2020


bhopal, number , corona infected ,MP , reached close , 14 thousand, 585 people died

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना की ग्रोथ रेट देश में सबसे कम और संक्रमित मरीजों का रिकवरी रेट 76 फीसदी से अधिक है। इसके बाद भी यहां नये मामलों में कमी नहीं आ रही है। अब यहां चार जिलों में 136 नये मामले सामने आए हैं, जबकि चार लोगों की मौत हुई है। इसके बाद राज्य में संक्रमितों की संख्या 14 हजार के करीब पहुंच गई है। वहीं, प्रदेश में कोरोना से अब तक 585 लोगों की मौत हो चुकी है।    इंदौर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने गुरुवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा बुधवार देर रात 1259 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की, जिनमें 19 नये पॉजिटिव मिले हैं। इसके बाद जिले में संक्रमित मरीजों की संख्या 4753 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से चार लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। मृतकों में 65 वर्षीय और 68 वर्षीय दो महिलाओं के साथ 65 वर्षीय दो पुरुष शामिल हैं। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 236 हो गई है। इसके अलावा मुरैना में 56, भोपाल में 58 और उज्जैन में तीन नये मामले सामने आए हैं।   इन 136 नये मामलों के साथ अब राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 13,997 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 4754, भोपाल 2886, उज्जैन 862, खंडवा 317, बुरहानपुर 401, जबलपुर 405, खरगौन 289, धार 179, ग्वालियर 393, नीमच 446, मंदसौर 115, सागर 377, मुरैना 537, देवास 220, रायसेन 110, भिंड 245, बड़वानी 114, होशंगाबाद 41, रतलाम 157, रीवा 58, विदिशा 45, बैतूल 57, सतना 34, छतरपुर 56, डिंडौरी 30, दमोह 40, आगरमालवा 16, झाबुआ 16, अशोकनगर 44, शाजापुर 62, सीधी 20, सिंगरौली 16, दतिया 25, शहडोल 22, बालाघाट 26, श्योपुर 76, शिवपुरी 36, टीकमगढ़ 42, छिंदवाड़ा 59, नरिसंहपुर 31, सीहोर 15, उमरिया 10, पन्ना 34, अलीराजपुर 04, अनूपपुर 29, हरदा 30, राजगढ़ 94, गुना 15, मंडला 06, सिवनी 14. निवाड़ी 09 और कटनी 19 मरीज शामिल हैं।   वहीं, इंदौर में हुई चार मौतों के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 585 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 236, भोपाल 101, उज्जैन 71, बुरहानपुर 23, खंडवा 17, जबलपुर 14, खरगौन 15, ग्वालियर 03, धार 06, मंदसौर 09, नीमच 07, सागर 21, देवास 10, रायसेन 05, होशंगाबाद 03, सतना 02, आगरमालवा 01, झाबुआ 01, अशोकनगर 01, शाजापुर 03, दतिया 01, छिंदवाड़ा 02, सीहोर 02, उमरिया 01, रतलाम 06, बड़वानी 04 मुरैना 04, राजगढ़ 06, श्योपुर 02, टीमकगढ़ 01, रीवा 01, गुना 01, हरदा 01, कटनी 02, सीधी 01 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है।   इधर, स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के अनुसार, राज्य में अब तक 10,655 मरीज कोरोना से जंग जीत चुके हैं और वे स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज होकर अपने घर जा चुके हैं। अब प्रदेश में कोरोना के सक्रिय प्रकरण 2761 हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 2 July 2020


bhopal, Business activities, conducted , till 10 pm

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में अब दुकानें रात 10 बजे तक खुली रह सकेंगी। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी अविनाश लवानिया ने इस संबंध में संशोधित आदेश जारी कर दिया है। जारी आदेश के मुताबिक, औद्योगिक संचालन संबंधी गतिविधियां राष्ट्रीय राजमार्ग पर चलने वाले वाहनों लोडिंग, अनलोडिंग, एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और अपने वाहनों से गंतव्य स्थान तक जाने वाले यात्रियों के आवागमन को छोडक़र शेष सभी गतिविधियां रात्रि 10.00 से सुबह 5.00 बजे तक बंद रहेगी। अत्यावश्यक दुकान के लिए भी यह नियम लागू होगा। रात्रि 10.00 बजे से 5.00 बजे तक कफ्र्यू का कड़ाई से पालन किया जाना अनिवार्य होगा।      कलेक्टर लवानिया ने धारा 144 के अंतर्गत इन सभी गतिविधियों को संचालित करने के निर्देश जारी किए हैं। इसके साथ ही पूर्व में जारी किए गए धारा144 के अन्तर्गत आदेश यथावत रहेंगे। अत्यावश्यक वस्तुओं की दुकानों को छोडक़र शेष दुकानें शनिवार और रविवार को बंद रहेगी, होटल, रेस्टोरेंट को होम डिलेवरी और पार्सल की अनुमति रहेगी। इसके साथ ही सार्वजनिक जगहों पर मास्क लगाकर जाना अनिवार्य होगा। 65 साल के बुजुर्ग,1 0 साल के बच्चे और गर्भवती महिलाओं को सार्वजनिक जगहों पर नहीं जाने कि सलाह दी गई है।   जिले में सार्वजनिक स्थलों पर थूकना,शराब, पान, तंबाकू सेवन करना प्रतिबंध रहेगा। सभी शासकीय कार्यालयों मेंअधिकारी की उपस्थिति शत-प्रतिशत रहेगी परंतु कंटेनमेंट क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले स्टाफ को कार्यालय में जाने की अनुमति नहीं रहेगी। समस्त स्टाफ को आरोग्य सेतु एप उपयोग करना अनिवार्य है। विभाग, संस्था, राजस्व, स्वास्थ्य पुलिस, दूरसंचार, नगरपालिका, पंचायत, नगर सैनिक, आपदा प्रबंधन एवं  टेलीकॉम इंटरनेट, वेतन मानदेय आदि हेतु कार्यालय को शत-प्रतिशत क्षमता से संचालन कर सकेंगे। समस्त दुकानों में एक समय में कम से कम न्यूनतम व्यक्तियों को प्रवेश दिया जाए और दो गज दूरी का पालन किया जाना आवश्यक होगा।   शादी, समारोह में घर से अधिकतम 40 व्यक्तियों की उपस्थिति एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।  जिले में अंतिम संस्कार हेतु 10 व्यक्ति ही शामिल हो सकेंगे। दुकानें सप्ताह में सोमवार से शुक्रवार तक 5 दिन खोलने एवं 2 दिन शनिवार एवं रविवार केवल होम डिलीवरी पार्सल टेकअवे खोलने की अनुमति दी जाती है। दुकानें होटल रात्रि 10:00 बजे तक खोली जायेंगी। जोखिम क्षेत्र को छोडक़र धार्मिक स्थल खोले जा सकेंगे। मूर्ति, फूल, नारियल, अगरबत्ती एवं घंटी बजाने की अनुमति नहीं होगी। जिले में निर्माण कार्य, इंडस्ट्रीज फैक्ट्री के संचालन समस्त कार्य कर सकेगे। फैक्ट्री, इंडस्ट्री कंस्ट्रक्शन गतिविधियों एवं संबंधित परिवहन की शनिवार और रविवार को संचालन की अनुमति रहेगी। यह आदेश 31 जुलाई 2020 तक प्रभाव शील रहेगा।

Dakhal News

Dakhal News 2 July 2020


bhopal, 70% quota,monsoon completed  June, three times, more rain

भोपाल। इस बार मानसून के आने का इंतजार लोगों को उतनी बेसर्बी से नहीं था, जैसा की हर बार होता है। कारण था पिछले साल मानसून के बाद भी जारी रही बारिश। प्रदेश में मार्च- अप्रैल तक बारिश का दौर जारी रहा। जिसके कारण जलाशय पानी से लबालब भरे हुए हैं। यही कारण है कि मानसून आने के बाद भले ही जून में लगातार बारिश नहीं हुई, लेकिन रुक-रुक कर पड़ रहीं तेज बौछारों ने प्रदेश को तर कर दिया है। अब तक प्रदेश में जून के कोटे से 70 फीसद अधिक बरसात हो चुकी है।   राजधानी भोपाल की बात करे तो यहां सामान्य बरसात से तीन गुना अधिक बरसात हो चुकी है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक मानसून द्रोणिका वर्तमान में शिवपुरी से होकर गुजर रही है। इसके अतिरिक्त छत्तीसगढ़ पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। इन सिस्टम के कारण प्रदेश में बारिश की गतिविधियों में तेजी आने के आसार हैं।   मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक 1 से 30 जून तक प्रदेश में 205.6 मिमी. बरसात हुई है। जो सामान्य बारिश (120.9 मिमी.) के मुकाबले 70 फीसद अधिक है। इस दौरान प्रदेश में सबसे ज्यादा बरसात भोपाल में रिकॉर्ड हुई है। मौसम विभाग द्वारा जारी जानकारी के मुताबिक भोपाल में मंगलवार सुबह तक 405.3 मिमी. बारिश हो चुकी है, जो सामान्य (130.8) के मुकाबले तीन गुना से भी अधिक है। प्रदेश में सबसे कम बरसात 34.6 मिमी. ग्वालियर में हुई है, जो सामान्य (66.3) से 48 फीसद कम है। जबलपुर में भी 108.7 मिमी. बारिश हुई, जो सामान्य (144.1) से 25 फीसद कम है। बालाघाट में सामान्य से 7 और भिंड में सामान्य से 6 प्रतिशत कम बरसात हुई है। शेष जिलों में सामान्य या सामान्य से अधिक बरसात हो चुकी है। मानसून आने के बाद मानसून द्रोणिका हिमालय के तराई क्षेत्र की तरफ पहुंच गई थी। इस वजह से लगातार बरसात की गतिविधियां कम हो गई थीं।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि इस दौरान अरब सागर और बंगाल की खाड़ी से लगातार नमी आने के कारण गरज-चमक के साथ बौछारें पडऩे का सिलसिला जारी रहा। इससे जून में प्रदेश तरबतर होता रहा। वर्तमान में मानसून द्रोणिका फिर सक्रिय होकर शिवपुरी से होकर गुजर रही है। साथ ही छत्तीसगढ़ पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। अरब सागर से भी लगातार नमी आ रही है। इससे बुधवार से मानसून की गतिविधियों में तेजी आने की संभावना है। जुलाई के पहले सप्ताह में राजधानी सहित पूरे प्रदेश में झमाझम बारिश होने के आसार हैं। इस दौरान कहीं-कहीं भारी वर्षा भी हो सकती है।

Dakhal News

Dakhal News 1 July 2020


indore,25 new, corona cases ,found ,232 deaths

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में एक तरफ कोरोना संक्रमित मरीज लगातार स्वस्थ होकर अपने घर जा रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ उतने ही नये पॉजिटिव भी मिल रहे हैं। इसलिए यहां सक्रिय मरीजों की संख्या लगभग स्थिर हो गई है। हालांकि, यहां कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। यहां अब कोरोना के 25 नये मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 4734 हो गई। इंदौर में अब तक कोरोना से 232 लोगों की मौत हो चुकी है।   इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने बुधवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा मंगलवार को देर रात 1531 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई, जिनमें 25 पॉजिटिव और शेष निगेटिव आई हैं। इन नये 25 मामलों के साथ अब जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 4734 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से तीन लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। मृतकों में एक 62 वर्षीय महिला के साथ ही एक 27 वर्षीय युवक और 78 वर्षीय बुजुर्ग शामिल हैं। इसके बाद यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 232 हो गई है।    हालांकि इंदौर में अब तक 3552 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 950 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है। सक्रिय मरीजों की संख्या पिछले एक महीने से लगभग 900 से एक हजार के बीच है, क्योंकि जितने मरीज यहां स्वस्थ होकर अपने घर जा रहे हैं, उतने ही नये मरीज भी मिलते जा रहे हैं।

Dakhal News

Dakhal News 1 July 2020


bhopal, RERA authority, records ,178 cases, through video conferencing

भोपाल। रेरा-प्राधिकरण द्वारा कोरोना महामारी के चलते पक्षकारों की शिकायतों की सुनवाई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से ऑनलाइन शुरू करने पर अच्छे परिणाम मिले हैं। कोविड-19 के बीच मई तथा जून में रिकार्ड 178 प्रकरणों के निपटारे से पक्षकार लाभान्वित हुए हैं। मई-जून में प्राधिकरण ने इन माहों में प्राप्त होने वाली शिकायतों के बदले तीन गुना अधिक प्रकरणों का निराकरण किया है। अब कुल निराकृत प्रकरण 3273 हो गए हैं।    देश-विदेश के पक्षकारों ने रखा अपना पक्ष   कोविड-19 के दौरान प्राधिकरण ने पक्षकारों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की जो सुविधा उपलब्ध कराई, उसके बेहतर परिणाम सामने आए। पक्षकारों ने अपनी-अपनी सुविधा के अनुसार सुनवाई में भाग लिया। जहां पक्षकारों तथा उनके अधिवक्ताओं ने यात्रा के दौरान, गाड़ी में बैठे-बैठे सुनवाई में भाग लिया, वहीं कुछ पक्षकार देश-विदेश के विभिन्न स्थानों से अपने अन्य कार्यों के साथ-साथ सुनवाई में शामिल हुए। जहाँ महिलाओं ने आवास मिलने में देरी पर भावानात्मक एवं वास्तविक तर्क रखे, वहीं पुरूष सदस्यों ने तथ्यात्मक बिन्दु भी रखे।    कोविड-19 की अवधि में भी रेरा प्रोजेक्ट पंजीयन में पीछे नहीं रहा। प्राधिकरण में मई तथा जून माह में 67 प्रोजेक्टों का पंजीयन किया गया। अब प्रदेश में पंजीकृत प्रोजेक्टों की संख्या कुल 2660 हो गई है।   कतर से सुनवाई में शामिल हुई संस्कृति देवड़ा को मिला न्याय   दोहा के कतर से पक्षकार संस्कृति देवड़ा वेस्र्टन कॉलोनाईजर्स लिमिटेड के विरूद्ध रेरा में दायर डिलीवरी की तारीख और फ्लैट के कब्जे के संबंध में चल रहे प्रकरण की सुनवाई में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से शामिल हुईं। उनका कहना है कि रेरा की सेवाओं से मैं संतुष्ट हूँ। रेरा की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग प्रक्रिया ने सुनवाई को सरल बना दिया है। मैं रेरा में नही होते हुए भी सुनवाई में भाग ले सकी।

Dakhal News

Dakhal News 1 July 2020


shivpuri, Prohibited ,85% reservation , Delhiites , National Law University

शिवपुरी। शिवपुरी में जन्मे और यही पढ़े युवा एडवोकेट निपुण सक्सेना और उनके साथ वरिष्ठ अधिवक्ता नीरज किशन कॉल द्वारा कुछ छात्रों की ओर पेश की गई एक जनहित याचिका पर दिल्ली हाईकोर्ट ने नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी में दिल्लीवासियों के लिए प्रस्तावित 85 फीसदी आरक्षण पर रोक लगा दी है। नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी के छात्रों द्वारा लगाई गई एक ऑनलाइन याचिका पर लॉक डाउन के दौरान शिवपुरी रहते हुए निपुण सक्सेना और दिल्ली के वरिष्ठ अधिवक्ता नीरज किशन कॉल ने दिल्ली हाईकोर्ट में अपने तर्क रखे। याचिका की सुनवाई करते हुए सोमवार को दिल्ली हाईकोर्ट ने नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी में दिल्लीवासियों के 50 फीसदी आरक्षण पर दिल्ली हाईकोर्ट ने सोमवार को रोक लगा दी। दिल्ली हाई कोर्ट ने कहा कि अभी यथास्थिति बनाई रखी जाए। हाई कोर्ट ने नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी से एलएलबी और एलएलएम में दाखिले के लिए आवेदन की तारीख को एक सप्ताह और बढ़ाने के लिए कहा है।    युवा एडवोकेट निपुण सक्सेना और वरिष्ठ अधिवक्ता नीरज किशन कॉल ने मंगलवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी में केवल दिल्ली के छात्रों के लिए पहले 50 फीसदी आरक्षण का प्रस्ताव लाया गया इसके बाद अब इसे और बढ़ाकर 85 फीसदी करने की मंशा के खिलाफ यह जनहित याचिका नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी के कुछ छात्रों द्वारा दिल्ली हाईकोर्ट में लगाई गई थी। याचिका में तर्क रखा गया कि देश के दूसरे राज्यों के छात्रों का इस आरक्षण पॉलिसी से नुकसान होगा और यह उनके संवैधानिक अधिकारों का हनन भी है। केवल एक राज्य के छात्रों के लिए यह रीजिनल आरक्षण पॉलिसी सही नहीं। दोनों अधिवक्तओं ने तर्क रखा कि नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी पूरे देश का दूसरा सर्वश्रेष्ठ विधि का संस्थान है ऐसे में यहां पर आरक्षण लाकर उन छात्रों के संवैधानिक अधिकारों का हनन है जो यहां पर विधि की शिक्षा ग्रहण करना चाहते हैं।    बता दें कि नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी प्रसाशन ने दिल्लीवासियों के लिए 50 फीसदी सीटें आरक्षित कर दी थीं। बाद में इसे बढ़ाकर 85 फीसदी करने का प्रस्ताव था। हाईकोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर 2 जुलाई से पहले प्रवेश के लिए फ्रेश एडमिशन नोटिफिकेशन जारी करे, जिसमें लिखा जाए कि दाखिले की अवधि को एक सप्ताह के लिए बढ़ा दिया गया है। इस मामले की अगली सुनवाई हाई कोर्ट में 18 अगस्त को होगी। याचिकाकर्ताओं की ओर से निपुण सक्सेना और वरिष्ठ अधिवक्ता नीरज किशन कॉल ने नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी के इस फैसले को चुनौती देते हुए दिल्ली कोर्ट में याचिका दायर की थी। याचिका में मांग की गई थी कि नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी द्वारा दिल्ली के कॉलजों से डिग्री हासिल करने वाले छात्रों को आरक्षण देना संविधान का उल्लंघन है इसीलिए इस पर रोक लगाई जाए। नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी का ये फैसला किसी भी तरीके से तर्क संगत नहीं है। दिल्ली हाई कोर्ट ने याचिकाकर्ता की इस बात को मानते हुए फिलहाल नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी में दिल्लीवासियों के लिए 50 फीसदी आरक्षण पर रोक लगा दी है। 

Dakhal News

Dakhal News 30 June 2020


bhopal, MP, Number ,corona infected, 13483 , 567  died

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना की ग्रोथ रेट देश में सबसे कम और संक्रमित मरीजों का रिकवरी रेट 76 फीसदी से अधिक है। इसके बाद भी यहां नये मामलों में कमी नहीं आ रही है। अब यहां चार जिलों में 113 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद राज्य में संक्रमितों की संख्या 13 हजार 483 हो गई हैं। वहीं, प्रदेश में कोरोना से अब तक 567 लोगों की मौत हो चुकी है।    इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने मंगलवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा सोमवार देर रात 1512 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की, जिनमें 45 नये पॉजिटिव मिले हैं। इसके बाद जिले में संक्रमितों की संख्या 4709 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से तीन लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। मृतकों में एक 70 वर्षीय महिला के साथ 51 वर्षीय और 58 वर्षीय दो पुरुष शामिल हैं। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 229 हो गई है। इसके अलावा मुरैना में कोरोना के 56, सागर में नौ और उज्जैन में तीन नये मामले सामने आए हैं।    इन 113 नये मामलों के साथ राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 13,483 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 4709, भोपाल 2764, उज्जैन 859, खंडवा 310, बुरहानपुर 392, जबलपुर 396, खरगौन 289, धार 173, ग्वालियर 354, नीमच 443, मंदसौर 113, सागर 365, मुरैना 405, देवास 219, रायसेन 109, भिंड 211, बड़वानी 114, होशंगाबाद 41, रतलाम 156, रीवा 57, विदिशा 45, बैतूल 56, सतना 33, छतरपुर 56, डिंडौरी 30, दमोह 38, आगरमालवा 16, झाबुआ 16, अशोकनगर 44, शाजापुर 62, सीधी 20, सिंगरौली 16, दतिया 25, शहडोल 22, बालाघाट 25, श्योपुर 72, शिवपुरी 35, टीकमगढ़ 38, छिंदवाड़ा 59, नरिसंहपुर 31, सीहोर 15, उमरिया 10, पन्ना 34, अलीराजपुर 03, अनूपपुर 29, हरदा 30, राजगढ़ 86, गुना 15, मंडला 06, सिवनी 14. निवाड़ी 08 और कटनी 15 मरीज शामिल हैं।    वहीं, इंदौर में हुई तीन मौतों के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 567 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 229, भोपाल 94, उज्जैन 70, बुरहानपुर 23, खंडवा 17, जबलपुर 14, खरगौन 15, ग्वालियर 03, धार 06, मंदसौर 09, नीमच 07, सागर 21, देवास 10, रायसेन 05, होशंगाबाद 03, सतना 02, आगरमालवा 01, झाबुआ 01, अशोकनगर 01, शाजापुर 03, दतिया 01, छिंदवाड़ा 02, सीहोर 02, उमरिया 01, रतलाम 06, बड़वानी 03 मुरैना 03, राजगढ़ 05, श्योपुर 02, टीमकगढ़ 01, रीवा 01, गुना 01, हरदा 01, कटनी 02, सीधी 01 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है।   इधर, स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के अनुसार, राज्य में अब तक 10,199 मरीज कोरोना से जंग जीत चुके हैं और स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब प्रदेश में कोरोना के सक्रिय प्रकरण 2720 हैं।

Dakhal News

Dakhal News 30 June 2020


Indore, Bhumafia ,Satbir Chhabra ,Sandeep Ramani ,also arrested , Jeetu Gold

इंदौर। इंदौर में पुलिस अपराधियों और भूमाफियाओं के खिलाफ एक्शन मोड में नजर आ रही है। बीते दिनों क्राइम ब्रांच की टीम ने मानव तस्करी समेत 56 से अधिक आपराधिक गतिविधियों में लिप्त सात माह से फरार चल रहे डेढ़ लाख से अधिक के इनामी जीतू सोनी को गिरफ्तार किया था। अब क्राइम ब्रांच की टीम ने 20-20 हजार के इनामी कुख्यात भू-माफिया सतबीर छाबड़ा और संदीप रमानी को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार कर लिया है।    डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र ने मंगलवार को इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि क्राइम ब्रांच की टीम ने दोनों को उनके घर के पास से गिरफ्तार किया है। दोनों छह महीने से ज्यादा समय से फरार चल रहे थे। उन्होंने बताया कि दोनों बदमाशों को गिरफ्तारी के लिए क्राइम ब्रांच की दिल्ली, पंजाब सहित कई राज्यों में डेरा डाले हुए थी। सतबीर भू-माफिया बॉबी छाबड़ा का भाई है, जो फरवरी में गिरफ्तार हो चुका है। सतबीर के घर से दबिश में टीम को करीबन 10 संस्थाओं के रिकॉर्ड मिले थे। पुलिस तब से इसकी तलाश कर रही थी।

Dakhal News

Dakhal News 30 June 2020


bhopal,Petrol price, reached, high level,Rs 88.10 per liter

भोपाल। लॉकडाउन के दौरान कच्चे तेल की कीमतें गिरने के बावजूद पेट्रोल डीजल के दाम स्थिर थे, लेकिन अनलॉक के बाद लगातार इनकी कीमतों में वृद्धि हो रही है। इससे देशभर में पेट्रोल-डीजल महंगा होता जा रहा है। भोपाल में तो डीजल के दाम उच्च स्तर पर पहुंच गए हैं। सोमवार को यहां डीजल 79.93 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया और मंगलवार को भी इसी कीमत पर बेचा जा रहा है।    बता दें कि इससे पहले 4 अक्टूबर 2018 को डीजल की कीमत 79.53 रुपये तक पहुंची थी। डीजल इससे पहले इतना महंगा कभी नहीं हुआ। यानी डीजल उच्च स्तर पर पहुंच गया। गत 6 जून को डीजल 68.27 रुपए प्रति लीटर बिक रहा था, अब इसमें 11.66 रुपये प्रति लीटर यानी 17 फीसदी का इजाफा हो चुका है। वहीं, पेट्रोल की कीमत भी भोपाल में 88.10 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गई है। पेट्रोल के दाम भी 2014 में डीजल की कीमतों से सरकारी नियंत्रण खत्म होने के बाद पहली बार 23 दिन में 22 बार बढ़े हैं। भोपाल में पेट्रोल के दाम 4 अक्टूबर-2018 के बाद के 20 माह का सर्वोच्च स्तर है। इस दिन राजधानी में पेट्रोल 89.83 रुपये प्रति लीटर था। यानी यहां पेट्रीक की कीमत भी उच्च स्तर के करीब पहुंच गई है। पिछले 23 दिनों में पेट्रोल भी 22 दिन में 10.54 रुपये यानी 13.58 फीसदी महंगा हुआ है। 

Dakhal News

Dakhal News 30 June 2020


indore, 49 new, corona cases ,found,226 deaths

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब यहां इस महामारी की चपेट में आने से और चार लोगों की मौत हो गई, जबकि 49 नये संक्रमित मिले हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 4664 हो गई है। वहीं, इंदौर में अब तक कोरोना से 226 लोगों की मौत हो चुकी है।   इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने सोमवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा रविवार देर रात 1512 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की, जिनमें 49 पॉजिटिव और शेष निगेटिव आई हैं। इन 49 नये मामलों के साथ अब जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 4664 पहुंच गई है। वहीं, यहां कोरोना से चार लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। मृतक चारों पुरुष हैं। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 226 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि इंदौर में अब तक 3435 व्यक्ति कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 1003 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 29 June 2020


ujjain,Lord Shiva, ride , shortened , Shravan Bhadau month

उज्जैन। उज्जैन में विश्व प्रसिद्ध ज्योतिर्लिंग भगवान महाकाल की हर साल की तरह इस वर्ष भी सावन-भादौ मास में सवारी निकाली जाएगी, लेकिन कोरोना महामारी को देखते हुए जिला प्रशासन भगवान महाकाल की परंपरागत सवारी का रूट परिवर्तित करने के साथ-साथ इसे छोटा करने पर विचार कर रहा है। संभावना जताई जा रही है कि इस बार परिवर्तित रूट से भगवान महाकाल की सवारी निकाली जाएगी।   दरअसल, अगले रविवार, पांच जुलाई को गुरु पूर्णिमा पर्व के बाद छह जुलाई, सोमवार से श्रावण मास प्रारंभ हो रहा है। इस बार के श्रावण मास में पांच सोमवार पर्व भी आएंगे, साथ ही आगामी 20 जुलाई सोमवार को श्रावण मास की सोमवती अमावस्या पर्व भी रहेगा। इस दौरान भारी संख्या में श्रद्धालु भगवान महाकालेश्वर के दर्शन के लिए पहुंचेंगे। कोरोना संकट के चलते फिलहाल सीमित संख्या में श्रद्धालु दर्शन करने पहुंच रहे हैं, लेकिन श्रावण मास के सोमवार पर्व एवं सोमवती अमावस पर्व पर भारी संख्या में दर्शनार्थियों के आने की संभावना है। सावन हर साल सोमवार को भगवान महाकाल की सवारी निकाली जाती है, जिसमें हजारों की संख्या में श्रद्धालु शामिल होते हैं, लेकिन इस बार कोरोना के चलते जिला प्रशासन नये रणनीति तैयार करने में जुटा है।   उल्लेखनीय है कि कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन का पहला चरण शुरू होने के बाद मार्च के महीने में सभी धार्मिक स्थलों में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक लगा दी गई थी। तब से लेकर महाकाल मंदिर में बीते सात जून तक श्रद्धालुओं का प्रवेश प्रतिबंधित था। अनलॉक होने के बाद कलेक्टर आशीष सिंह ने सरकार की गाईड लाईन के मुताबिक 08 जून से महाकालेश्वर मंदिर में प्री-बुकिंग के आधार पर श्रद्धालुओं का प्रवेश आरंभ कर दिया था। अभी भी महाकाल में भक्तों को एक दिन पहले ऑनलाइन परमिशन लेने के बाद अगले दिन प्रवेश दिया जा रहा है।    वहीं, आगामी 6 जुलाई को सावन का पहला दिन सोमवार को आ रहा है। इसी दिन महाकाल की पहली सवारी निकलेगी। कुछ दिन पहले मंदिर के पुजारियों ने सुझाव दिया था कि कोरोना महामारी को देखते हुए मंदिर का परंपरागत सवारी रूट आवश्यकता पडऩे पर बदला जाए। इसी के चलते प्रशासनिक गलियारों में चर्चा है कि महाकाल सवारी का रूट बड़ा गणेश मंदिर होकर हरसिद्धि के सामने से होते हुए रामघाट तक रखा जा सकता है। शिप्रा पूजन के बाद इसी मार्ग से सवारी वापस मंदिर लौट आएगी। निर्धारित सामाजिक दूरी और संक्रमण फैलने से रोकने के लिए प्रशासन इस पर विचार कर रहा है।    रामघाट पर भीड़ बढ़ी, भिखारियों की भी भरमार   इधर, उज्जैन में शिप्रा नदी पर रामघाट और अन्य जगह भीड़ बढ़ गई है तथा यहां प्रतिदिन बाहर से भी लोग आ रहे हैं तथा उनके पीछे भिखारी पड़ रहे हैं, जहां पर कोई भी न तो मास्क लगाता है और न ही दो गज दूरी का पालन करता है। दरअसल, इस धार्मिक शहर में 75 दिन से अधिक समय तक लॉकडाउन रहने के बाद शिप्रा के घाटों पर पूजन और अन्य विधियां शुरू हुई हैं। इसके चलते शिप्रा नदी पर स्नान करने और पूजन के लिए लोगों का पहुंचना शुरू हो गया है। यहां श्रद्धालुओं की भीड़ लगने के साथ ही भिखारियों का मजमा भी लगने लगा है और भिखारी यहां आने वाले लोगों पर टूट पड़ते हैं और उनका पीछा नहीं छोड़ते। यह भिक्षुक न तो मास्क पहने हुए हैं और देखने में भी गंदे लगते हैं। हालांकि, घाटों पर पुलिस तैनात है और नागरिकों को हिदायत दी जा रही है, इसके बावजूद लोग मानने को तैयार नहीं हैं।

Dakhal News

Dakhal News 29 June 2020


bhopal, Chances ,good rainfall, Madhya Pradesh

भोपाल। मध्य प्रदेश के लोगों के लिए राहत भरी खबर है। प्रदेश में आज से अच्छी बारिश की शुरूआत हो सकती है, जिससे लोगों को गर्मी और उमस से राहत मिलेगी। राजधानी भोपाल में पिछले दो दिनों से बारिश पर विराम लगा हुआ है। रविवार को पूरे दिन कड़ी धूप निकलने के बाद शाम को बादल छाए लेकिन बारिश नहीं हुई। वहीं सोमवार सुबह से भी मौसम साफ है। हालांकि प्रदेश के अलग-अलग स्थानों पर गरज-चमक के साथ बौछारें पडऩे को सिलसिला जारी है।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में बंगाल के आस-पास ऊपरी हवा का चक्रवात बन गया है। उसके प्रभाव से सोमवार से बारिश की गतिविधियों में तेजी आने की संभावना है। वर्तमान में उत्तर-पूर्वी मप्र से मराठवाड़ा तक एक द्रोणिका लाइन (ट्रफ) बनी हुई है। इससे अरब सागर से नमी आ रही है। उधर, प्रदेश के विभिन्ना स्थानों पर रुक-रुक कर बौछारें पडऩे के कारण वातावरण में भी काफी नमी बरकरार है। इस वजह से तापमान बढ़ते ही शाम के वक्त बारिश होने लगती है। बंगाल के आस-पास एक ऊपरी हवा का चक्रवात बन गया है। इसके प्रभाव से सोमवार से प्रदेश में बरसात की गतिविधियों में तेजी आएगी। विशेषकर उत्तरी मप्र में कहीं-कहीं अच्छी बरसात की भी संभावना है।

Dakhal News

Dakhal News 29 June 2020


ujjain,200 crore,development ,Kalabhairav ​​temple ,area. Plan of

उज्जैन। शहर के ख्यात काल भैरव मंदिर के विकास हेतु 200 करोड़ रू. की एक योजना तैयार की जा रही है। इस योजना के तहत पूरे क्षेत्र को आकर्षक बनाया जाएगा,जो कि पर्यटन की दृष्टि से भी बहुआयामी रहेगा। स्मार्ट सिटी अन्तर्गत तैयार इस योजना को स्वीकृति हेतु भोपाल भेजा जाएगा।   स्मार्ट सिटी अंतर्गत उज्जैन के धार्मिक पर्यटन में विशेष स्थान रखने वाले काल भैरव मंदिर एवं मंदिर क्षेत्र के विकास के लिए लगभग 200 करोड़ रूपये का प्लान तैयार कर स्वीकृति हेतु भेजा जाएगा। योजना में एक आकर्षक प्रवेश द्वार, आसपास के क्षेत्र में दो एवं चार वाहन की पार्किंग की सुविधा, प्लाजा का निर्माण, लैण्ड स्केपिंग, मंदिर के बाहरी क्षेत्र का विकास, लाईटिंग, सीसीटीवी कैमरे, साईनेज, वाच टावर, सुविधागृहों आदि का काम करवाया जाएगा। कलेक्टर आशीष सिंह ने सिंहस्थ मेला कार्यालय में निगमायुक्त क्षितिज सिंघल, स्मार्ट सिटी के टीम लीडर, आर्किटेक्ट एवं इंजिनियर के साथ बैठक ली। बैठक में मृदा योजना एवं महाकाल क्षेत्र में किये जा रहे कार्यों की समीक्षा भी की गई। ज्ञात रहे मृदा  योजना चरण-2 के तहत महाराजवाड़ा कॉम्प्लेक्स के निर्माण में पूर्व के हेरिटेज भवन का संरक्षण किया जाएगा। इसी के साथ पब्लिक एमीनेटिज, सीटिंग एरिया, म्यूजियम का निर्माण करते हुए महाकाल मंदिर एवं छोटा रुद्र सागर से इस क्षेत्र को जोड़ा जाएगा। इसी तरह अन्न क्षेत्र का निर्माण भी किया जाएगा ,जिसमें 1800 लोगों के भोजन करने की क्षमता का हाल, 100 लोगों के ठहरने की क्षमतावाला आवास एवं आधुनिक रसोई घर का निर्माण किया जाएगा। रामघाट क्षेत्र में सुरक्षित पैदल फूटपाथ, गली के व्यापारियों का व्यवस्थिकरण, गलियों का सौंदर्यीकरण, रामघाट का सौंदर्यीकरण किया जाएगा। साथ ही घाटों पर डायनामिक लाईटिंग की व्यवस्था की जाएगी। बैठक में बताया गया कि वर्तमान में स्मार्ट सिटी द्वारा मृदा योजना के चरण एक में 154 करोड़ रू. लागत से मल्टीलेवल पार्किंग,  मिडवे  जोन व  महाकाल थीम पार्क का कार्य जारी है। कलेक्टर ने फेस वन के कार्य वर्ष के अंत तक पूर्ण करने के निर्देश दिये है।

Dakhal News

Dakhal News 27 June 2020


mandsour, Kalpavriksha fell , Pashupatinath temple

मंदसौर। विगत दिनों चली तेज हवा और बारिश के कारण भगवान पशुपतिनाथ महादेव मंदिर परिसर में लगा कल्पवृक्ष उखड़ गया था। इस पेड़ को शनिवार को फिर से लगा दिया गया है।   मंदिर प्रबंध समिति के प्रबंधक राहुल रूनवाल ने बताया कि मंदिर परिसर में एक कल्पवृक्ष का बड़ा पेड लगा था। श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र यह पेड़  विगत दिनों तेज हवाओं के कारण उखड़ गया था।  मंदिर प्रबंध समिति द्वारा शनिवार को इस पेड़ को फिर से जमीन में लगा दिया गया है। पेड़ को उसकी जड़ों समेत वापस जमीन में लगाने के लिए जेसीबी और क्रेन की सहायता ली गई थी।

Dakhal News

Dakhal News 27 June 2020


mandsour, Kalpavriksha fell , Pashupatinath temple

मंदसौर। विगत दिनों चली तेज हवा और बारिश के कारण भगवान पशुपतिनाथ महादेव मंदिर परिसर में लगा कल्पवृक्ष उखड़ गया था। इस पेड़ को शनिवार को फिर से लगा दिया गया है।   मंदिर प्रबंध समिति के प्रबंधक राहुल रूनवाल ने बताया कि मंदिर परिसर में एक कल्पवृक्ष का बड़ा पेड लगा था। श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र यह पेड़  विगत दिनों तेज हवाओं के कारण उखड़ गया था।  मंदिर प्रबंध समिति द्वारा शनिवार को इस पेड़ को फिर से जमीन में लगा दिया गया है। पेड़ को उसकी जड़ों समेत वापस जमीन में लगाने के लिए जेसीबी और क्रेन की सहायता ली गई थी।

Dakhal News

Dakhal News 27 June 2020


indore, Lawyer, commits suicide, four-page ,suicide note

इंदौर। शहर के पंढरीनाथ थाना इलाके में पत्नी की बेवफाई से परेशान होकर एक वकील ने मौत को गले लगा लिया। सुसाईड नोट में उसने अपनी मौत के लिए पत्नी, प्रेमी, साडू, सास और मुंह बोली सास को दोषी बताया है।    पुलिस के अनुसार, उदापुरा निवासी 44 वर्षीय संजीव पुत्र ओमप्रकाश मेहरा वकालत करते थे। उन्होंने गत 24 जून की सुबह घर पर जहर खा लिया था। भाई राजदीप ने उन्हें एमवाय अस्पताल में भर्ती कराया था, जहां शनिवार सुबह संजीव की मौत हो गई। पंढऱीनाथ टीआई कमलेश शर्मा के मुताबिक संजीव के बयान नहीं हो सके थे। जांचकर्ता एएसआई प्रेमसिंह निंगवाल ने बताया कि संजीव से चार पेजों का सुसाइड नोट जब्त हुआ है। उसने मौत के लिए पत्नी की बेवफाई का जिक्र करते हुए पत्नी, उसके प्रेमी सहित अन्य लोगों को जिम्मेदार बताया है। शव को पोस्टमार्टम के भेज दिया है और पुलिस फिलहाल मामले की जांच कर रही है।   प्रेमी से बोली वकील की पत्नी, मेरे आदमी को मारा डालो   मृतक संजीव की भाभी सारिका के मुताबिक संजीव ने कुछ दिन पहले अपने वॉट्स एॅप स्टेट्स पर लिखा था कि पत्नी के बदचलन होने के कारण मैं मरता हूं तो इसका जिम्मेदार उसका आशिक योगेश द्विवेदी, मेरी पत्नी अंतिम और रंजना दुबे होगी। यह देखकर हमारे होश उड़ गए। जब संजीव से बात की तो उसने सारी सच्चाई बताई। तब हमें अंतिम की बदचलनी का पता चला।    यह लिखा नोट में   मैं संजीव मेहरा अपनी पत्नी अंतिम मेहरा से बहुत प्यार करता था। आंखे बंद कर उस पर विश्वास किया। उसने मेरा विश्वास तोडक़र योगेश द्विवेदी नाम के व्यक्ति से प्रेम प्रसंग चालू कर दिया। दोनों में आठ माह से अफेयर है...। रंजना दुबे इसमें शामिल है...। मेरी पत्नी बच्चों को छत पर खेलता छोडक़र मेरी अनुपस्थिति में 16 जून को लॉक डॉउन के दौरान बिना बताए घर से चली गई। रात को अपने मायके धार जा पहुंची। इस बीच वह अपने आशिक के साथ थी। उसी ने उसे धार छोड़ा होगा...। मेरे साडू ने मुझे फोन कर उसके धार में पहुंचने की बात बताई। वहीं मेरी सास प्रेमलता से बात हुई तो उसने मुझे नाकारा बताकर अंतिम से तलाक दिलवाने की धमकी दी...। मेरी मौत के जिम्मेदार मेरी पत्नी अंतिम, उसका आशिक योगेश द्धिवेदी, सास प्रेमलता, साडू अरुण टांक और मेरी पत्नी की मुंह बोली मां रंजना दुबे है...। मुझे मरने का गम नहीं... पर बच्चों की चिंता हैं...। योगेश और मेरी पत्नी मुझे मेरी प्रॉपर्टी के लिए मारना चाहते हैं। इसके सबूत मेरे मोबाइल में है। मेरी पत्नी के साथ तीन ज्वाईंट प्रॉपर्टी है। मेरी मौत के बाद ये पत्नी की हो जायेगी। योगेश रजिस्ट्री का काम करता है। ये बात उसने मेरी पत्नी को बताई है...। बच्चों से कहना चाहता हूं कि तुम्हारे पिता बुरे  नहीं है। हालात ने बुरा बना दिया। मेरी मौत के बाद मेरी प्रॉपर्टी पर मेरे बच्चों को मिलना चाहिए..। बेटा हर्षित खुब पढ़े डॉक्टर बनकर दिखाए और छोटे भाई हार्दिक का ख्याल रखें।

Dakhal News

Dakhal News 27 June 2020


bhopal,No chance , strong rains, Madhya Pradesh, present

भोपाल। वातावरण में मौजूद नमी के कारण प्रदेश के अलग-अलग क्षेत्रों में रुक-रुक कर बौछारें पडऩे का सिलसिला जारी है। राजधानी भोपाल में शुक्रवार शाम को थोड़ी देर हुई बारिश ने राहत पहुंचाई, लेकिन शनिवार सुबह से तीखी धूप निकली हुई है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक वातावरण में बड़े पैमाने पर नमी मौजूद है। दिन में तापमान बढ़ते ही बारिश होने लगती है।    वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि बंगाल की खाड़ी में एक ऊपरी हवा का चक्रवात बनने जा रहा है। उसके आगे बढक़र सक्रिय होने पर 29 जून से प्रदेश के अधिकांश इलाकों में अच्छी बारिश की शुरुआत होने की संभावना है। फिलहाल बंगाल की खाड़ी और अरब सागर से कुछ नमी मिल रही है। इस वजह से प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर दोपहर के बाद रुक-रुक कर बौछारें पड़ रही हैं। पूर्वी मप्र में छिटपुट बरसात हो रही है। फिलहाल प्रदेश में कोई मानसूनी सिस्टम सक्रिय नहीं है। बंगाल की खाड़ी में बंगाल के पास एक ऊपरी हवा का चक्रवात बनने जा रहा है। इसके आगे बढऩे से 29 जून के बाद प्रदेश के कई स्थानों पर बारिश का सिलसिला शुरू होने की संभावना है।

Dakhal News

Dakhal News 27 June 2020


indore,Minister Dr. Mishra, inspected, Aurobindo Covid Care Center ,patients

इंदौर। प्रदेश के गृह, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण  मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने गुरुवार को इंदौर पहुंचकर अरविंदो अस्पताल के कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण किया। इस दौरान स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री को बताया गया कि अस्पताल में कोरोना संक्रमितों को बेहतर उपचार उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने कोविड-19 संक्रमण के प्रोटोकॉल एवं आवश्यक मापदंडों का पालन करते हुए पीपीई किट पहनकर कोरोना संक्रमितों से मुलाकात की।    मंत्री डॉ. मिश्रा ने मरीजों को आश्‍वस्त किया कि सभी जल्द ही स्वस्थ्य होकर अपने घर लौटेंगे। उन्होंने अस्पताल प्रबंधन से उपचार संबंधी जानकारियां लेते हुए मरीजों को सर्वोत्तम उपचार उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। निरीक्षण के दौरान जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट एवं अन्य जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

Dakhal News

Dakhal News 25 June 2020


bhopal, Guidelines should, strictly followed , avoid corona DGP

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना के नये मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इसे देखते हुए प्रदेश के डीजीपी विवेक जौहरी ने गुरुवार को पुलिस मुख्यालय को एक पत्र जारी किया है। इस पत्र में उन्होंने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लागू गाइडलाइन का सख्ती से पालन कराने को कहा है। साथ ही उन्होंने चेतावनी भी दी है कि किसी भी तरह की लापरवाही बरती जाती है तो ऐसे पुलिसकर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।    बता दें कि कुछ दिन पहले ही कोरोना से बचाव के लिए पुलिस मुख्यालय ने मैदानी पुलिस को गाइडलाइन का पालन करने के साथ ही कई निर्देश दिए थे। डीजीपी जौहरी ने कोरोना से बचाव के लिए मुख्यालय के पुलिस अधीक्षकों की जिम्मेदारी तय की थी। अब उन्होंने पत्र में गाइडलाइन का सख्ती से पालन करने की हिदायत दी है। उन्होंने कहा है कि संक्रमण फैलने से रोकने, गाइडलाइन का पालन करने और निर्देशों का पालन करवाने की जिम्मेदारी विभाग के पुलिस अधीक्षक की रहेगी। डीजीपी जौहरी ने पुलिस स्टाफ को भी कोरोना से बचाव के निर्देश दिए हैं, साथ ही सभी को सजग और सचेत रहने की सलाह दी है। 

Dakhal News

Dakhal News 25 June 2020


bhopal,538 people, died , corona, MP, 12534 infected

भोपाल। मध्यप्रदेश की कोरोना की ग्रोथ रेट देश में सबसे कम और रिकवरी रेट 76 फीसदी से अधिक होने के बाद भी यहां नये मामलों में कमी नहीं आ रही है। अब यहां पांच जिलों में 86 नये मामले सामने आए हैं, जबकि चार लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या बढक़र 12 हजार 534 हो गई है। वहीं, राज्य में कोरोना से अब तक 538 लोगों की मौत हो चुकी है।   इंदौर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने गुरुवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा बुधवार देर रात 1493 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई, जिनमें 46 नये पॉजिटिव मिले हैं। इसके बाद शहर में संक्रमितों की संख्या 4507 हो गई है। वहीं, चार लोगों की कोरोना से मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 211 हो गई है। वहीं, भोपाल सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी के अनुसार, राजधानी में गुरुवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में 32 नये पॉजिटिव मिले हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या बढक़र 2665 हो गई है। इसके अलावा, बड़वानी में चार, नीमच में तीन और उज्जैन में एक नया मामला सामने आया है।   इन 86 नये मामलों से साथ अब राज्य में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 12,534 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 4507, भोपाल 2665, उज्जैन 850, खंडवा 287, बुरहानपुर 390, जबलपुर 368, खरगौन 263, धार 155, ग्वालियर 299, नीमच 433, मंदसौर 101, सागर 301, मुरैना 182, देवास 205, रायसेन 98, भिंड 153, बड़वानी 86, होशंगाबाद 41, रतलाम 139, रीवा 43, विदिशा 42, बैतूल 46, सतना 26, छतरपुर 54, डिंडौरी 30, दमोह 31, आगरमालवा 16, झाबुआ 15, अशोकनगर 43, शाजापुर 49, सीधी 19, सिंगरौली 15, दतिया 21, शहडोल 16, बालाघाट 20, श्योपुर 66, शिवपुरी 27, टीकमगढ़ 29, छिंदवाड़ा 32, नरिसंहपुर 27, सीहोर 12, उमरिया 10, पन्ना 27, अलीराजपुर 03, अनूपपुर 29, हरदा 25, राजगढ़ 80, गुना 12, मंडला 06, सिवनी 11 निवाड़ी 08 और कटनी 15 मरीज शामिल हैं।    वहीं, इंदौर में हुई चार मौतों के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 538 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 211, भोपाल 90, उज्जैन 69, बुरहानपुर 23, खंडवा 17, जबलपुर 14, खरगौन 14, ग्वालियर 02, धार 05, मंदसौर 09, नीमच 07, सागर 18, देवास 10, रायसेन 05, होशंगाबाद 03, सतना 02, आगरमालवा 01, झाबुआ 01, अशोकनगर 01, शाजापुर 03, दतिया 01, छिंदवाड़ा 02, सीहोर 02, उमरिया 01, रतलाम 06, बड़वानी 03 मुरैना 01, राजगढ़ 05, श्योपुर 02, टीमकगढ़ 01, रीवा 01, गुना 01, हरदा 01, कटनी 02, सीधी 01 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है।   स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार प्रदेश में कोरोना का रिकवरी रेट 76.3 फीसदी है। यहां अब तक 9600 से अधिक संक्रमित मरीज पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। प्रदेश में कोरोना का ग्रोथ रेट 1.43 है, जो कि देश में सबसे कम है। इसके बाद भी यहां नये मामलों में कमी नहीं आ रही है। इसकी वजह यह है कि प्रतिदिन जितने मरीज स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच रहे हैं, उतने ही नये पॉजिटिव भी रोजाना मिल रहे हैं।

Dakhal News

Dakhal News 25 June 2020


bhopal,Railways , provide employment , migrant laborers, six states

नईदिल्ली/भोपाल। गरीब कल्याण रोजगार अभियान के अंतर्गत रेलवे मध्यप्रदेश समेत देश के छह राज्यों में अपने घर वापस आए प्रवासी मजदूरों को 08 लाख मानव दिवस का रोजगार उपलब्ध कराएगा। इसके लिए रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष विनोद कुमार यादव ने बुधवार को आयोजित बैठक में जनरल  मैनेजर, डिवीजनल मैनेजर एवं रेलवे से जुड़ी सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों के प्रबंध निदेशकों को निर्देश दिये।   रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष विनोद कुमार यादव ने बुधवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित बैठक में गरीब कल्याण रोजगार अभियान की समीक्षा की। इस अभियान के अंतर्गत रेलवे मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, बिहार, राजस्थान, झारखंड और उड़ीसा के 116 जिलों में प्रवासी मजदूरों को रोजगार उपलब्ध कराएगी। इसके अंतर्गत 31 अक्टूबर तक कोरोना के कारण घर लौटे प्रवासी मजदूरों को 08 लाख मानव दिवस का रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा। बैठक में रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ने निर्देश दिये कि सभी राज्यों या जोन में एक नोडल अधिकारी की नियुक्ति की जाए, ताकि प्रवासी श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने के अभियान में राज्य सरकारों के साथ समन्वय किया जा सके। बैठक में जानकारी दी गई कि प्रवासी श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए रेलवे की अधोसंरचना से जुड़े 160 कामों की पहचान की गई है। इन परियोजनाओं पर करीब 1800 करोड़ की राशि खर्च की जाएगी। इन कामों के अलावा रेलवे ने ऐसे कामों की भी पहचान की है, जिन्हें मनरेगा के माध्यम से पूरा किया जाएगा।

Dakhal News

Dakhal News 24 June 2020


bhopal,MP got ,second class ,first prize , E Panchayat

भोपाल। पंचायतों में सूचना और संचार प्रौद्योगिकी का बेहतर उपयोग कर काम-काज में दक्षता एवं जवाबदेही सुनिश्चित करने के लिये मध्यप्रदेश को ई-पंचायत पुरस्कार-2020 मिला है। पंचायती राज मंत्रालय द्वारा मध्यप्रदेश को द्वितीय श्रेणी अंतर्गत वर्ष-2020 का ई-पंचायत प्रथम पुरस्कार प्रदान किया गया है।   गौरतलब है कि प्रदेश की पंचायतों द्वारा योजनाओं के ऑनलाईन क्रियान्वन तथा ऑनलाईन आय-व्यय के लिये भारत सरकार पंचायती राज मंत्रालय के विभिन्न ऑनलाईन एप्लीकेशन पी.एफ.एम.एस., ई-ग्राम स्वराज, लोकल गवर्मेंट डायरेक्ट्री आदि के साथ-साथ विभागीय “पंचायत दर्पण” पोर्टल का उपयोग बेहतर तरीके से किया गया।   भारत सरकार पंचायती राज मंत्रालय द्वारा मध्यप्रदेश को “ई-पंचायत पुरस्कार 2020” से सम्मानित किया है। भारत सरकार द्वारा प्रतिवर्ष सूचना प्रौद्योगिकी के उपयोग द्वारा पंचायतों में पारदर्शी रूप से प्रभावी उत्तरदायित्व निर्वहन के लिये तीन श्रेणियों में ई- पंचायत पुरस्कार प्रदान किये जाते हैं, जिसमें समस्त राज्य अपना नामांकन करते हैं।

Dakhal News

Dakhal News 24 June 2020


bhopal, 529 people, have died ,MP Corona, number, infected ,12334

भोपाल। मध्यप्रदेश की कोरोना की ग्रोथ रेट देश में सबसे कम है और यहां रिकवरी रेट भी 76 फीसदी से अधिक है। फिर भी यहां नये मामलों में कमी नहीं आ रही है। अब यहां पांच जिलों में 73 नये मामले सामने आए हैं, जबकि चार लोगों की मौत हुई है। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 12 हजार 334 हो गई है, जबकि राज्य में कोरोना से अब तक 529 लोगों की मौत हो चुकी है।   भोपाल सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी के अनुसार, बुधवार सुबह 900 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट में 32 नये संक्रमित मिले हैं। इसके बाद यहां पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढक़र 2633 हो गई है, जबकि भोपाल में अब तक 87 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, इंदौर सीएमएचओ डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने बुधवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा मंगलवार देर रात 1580 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की, जिनमें 34 नए पॉजिटिव मिले हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 4461 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से चार लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। यहां अब कोरोना से मरने वालों की संख्या 207 हो गई है। इसके अलावा, नीमच में चार, सतना में दो और उज्जैन में एक नया मरीज मिला है।   इन 73 नये मामलों के बाद राज्य में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 12,334 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 4461, भोपाल 2633, उज्जैन 849, खंडवा 287, बुरहानपुर 390, जबलपुर 360, खरगौन 263, धार 155, ग्वालियर 292, नीमच 432, मंदसौर 101, सागर 295, मुरैना 172, देवास 205, रायसेन 98, भिंड 150, बड़वानी 82, होशंगाबाद 41, रतलाम 137, रीवा 43, विदिशा 42, बैतूल 46, सतना 26, छतरपुर 53, डिंडौरी 30, दमोह 30, आगरमालवा 16, झाबुआ 15, अशोकनगर 43, शाजापुर 49, सीधी 19, सिंगरौली 15, दतिया 21, शहडोल 16, बालाघाट 20, श्योपुर 64, शिवपुरी 24, टीकमगढ़ 29, छिंदवाड़ा 32, नरिसंहपुर 27, सीहोर 12, उमरिया 10, पन्ना 26, अलीराजपुर 03, अनूपपुर 29, हरदा 25, राजगढ़ 80, गुना 12, मंडला 06, सिवनी 11 निवाड़ी 08 और कटनी 15 मरीज शामिल हैं।    वहीं, इंदौर में हुई चार मौतों के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 529 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 207, भोपाल 87, उज्जैन 69, बुरहानपुर 23, खंडवा 17, जबलपुर 14, खरगौन 14, ग्वालियर 02, धार 05, मंदसौर 09, नीमच 07, सागर 18, देवास 10, रायसेन 05, होशंगाबाद 03, सतना 02, आगरमालवा 01, झाबुआ 01, अशोकनगर 01, शाजापुर 03, दतिया 01, छिंदवाड़ा 02, सीहोर 02, उमरिया 01, रतलाम 06, बड़वानी 03 मुरैना 01, राजगढ़ 05, श्योपुर 02, टीमकगढ़ 01, रीवा 01, गुना 01, हरदा 01, कटनी 02, सीधी 01 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है।    प्रदेश में कोरोना का रिकवरी रेट 76.3 फीसदी है। यहां अब तक 9400 से अधिक संक्रमित मरीज पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं, लेकिन नये मामले भी लगातार सामने आ रहे हैं। यहां जितने मरीज स्वस्थ हो रहे हैं, उतने ही नये मामले सामने आ रहे हैं, इसलिए ग्रोथ रेट भी लगातार कम हो रहा है। प्रदेश का ग्रोथ रेट 1.43 पहुंच गया है, जो कि देशभर में सबसे कम है। गुजरात की ग्रोथ रेट 2.10, राजस्थान की 2.31, महाराष्ट्र की 2.96, पश्चिम बंगाल की 3.23, उत्तरप्रदेश की 3.82 तथा तमिलनाडु की 4.21 प्रतिशत है। वहीं, देश की कोरोना ग्रोथ रेट 3.63 प्रतिशत है।

Dakhal News

Dakhal News 24 June 2020


bhopal, 523 people , died,corona,MP,  number infected,12147

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों का रिकवरी रेट 75 फीसदी से अधिक है। इसके बाद भी नये मामलों में कमी नहीं आ रही है। यहां अब चार जिलों में 69 नये मामले सामने आए हैं, जबकि दो लोगों की मौत हुई है। इसके बाद राज्य में संक्रमितों की संख्या 12 हजार 147 हो गई है। वहीं, प्रदेश में कोरोना से अब तक 523 लोगों की मौत हो चुकी है।   इंदौर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने मंगलवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा सोमवार देर रात 1588 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की, जिनमें 54 पॉजिटिव मिले हैं। वहीं, कोरोना से दो लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। इसके बाद जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 4427 है, जबकि मरने वालों की संख्या 203 हो गई है। इसके अलावा धार में नौ, उज्जैन में चार और बालाघाट में दो नये संक्रमित मिले हैं।   इन 69 नये मामलों के बाद अब राज्य में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 12,147 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 4427, भोपाल 2527, उज्जैन 848, खंडवा 287, बुरहानपुर 390, जबलपुर 360, खरगौन 263, धार 155, ग्वालियर 292, नीमच 427, मंदसौर 101, सागर 292, मुरैना 172, देवास 205, रायसेन 98, भिंड 150, बड़वानी 80, होशंगाबाद 41, रतलाम 137, रीवा 43, विदिशा 42, बैतूल 46, सतना 24, छतरपुर 53, डिंडौरी 30, दमोह 30, आगरमालवा 16, झाबुआ 15, अशोकनगर 43, शाजापुर 49, सीधी 19, सिंगरौली 15, दतिया 21, शहडोल 16, बालाघाट 20, श्योपुर 64, शिवपुरी 24, टीकमगढ़ 29, छिंदवाड़ा 32, नरिसंहपुर 27, सीहोर 12, उमरिया 10, पन्ना 26, अलीराजपुर 03, अनूपपुर 29, हरदा 25, राजगढ़ 80, गुना 12, मंडला 06, सिवनी 11 निवाड़ी 08 और कटनी 15 मरीज शामिल हैं।    वहीं, इंदौर में हुई दो मौतों के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 523 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 203, भोपाल 85, उज्जैन 69, बुरहानपुर 23, खंडवा 17, जबलपुर 14, खरगौन 14, ग्वालियर 02, धार 05, मंदसौर 09, नीमच 07, सागर 18, देवास 10, रायसेन 05, होशंगाबाद 03, सतना 02, आगरमालवा 01, झाबुआ 01, अशोकनगर 01, शाजापुर 03, दतिया 01, छिंदवाड़ा 02, सीहोर 02, उमरिया 01, रतलाम 06, बड़वानी 03 मुरैना 01, राजगढ़ 05, श्योपुर 02, टीमकगढ़ 01, रीवा 01, गुना 01, हरदा 01, कटनी 02, सीधी 01 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है। हालांकि, यहां अब तक 9215 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं। अब प्रदेश में कोरोना के सक्रिय प्रकरण 2411 हैं।

Dakhal News

Dakhal News 23 June 2020


bhopal,40 new, corona cases, found, nine new infected , Barwani

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ गयी है। अब यहां 40 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद संक्रमित मरीजों की संख्या बढक़र 2544 हो गई है। वहीं, बड़वानी जिले में भी कोरोना के नौ नये संक्रमित मरीज मिले हैं।   भोपाल सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी के मुताबिक, सोमवार सुबह 40 लोगों की रिपोर्ट पॉटिजिव आई है, जबकि रविवार देर रात 994 सेम्पलों की जांच में 23 नये संक्रमित मिले थे। इस तरह अब भोपाल में कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 2544 हो गई है। यहां कोरोना से अब तक 84 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि, यहां रिकवरी रेट अच्छा है। अब तक भोपाल में 1789 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं।   इधर, बड़वानी सीएमएचओ कार्यालय द्वारा जानकारी दी गई है कि जिले में रविवार देर रात आई रिपोर्ट में नौ नये पॉजिटिव मिले हैं। इनमें सात राजपुर, एक सेंधवा और एक जलगोन का रहना वाला है। इसके साथ ही बड़वानी में अब संक्रमित मरीजों की संख्या बढक़र 89 हो गई है, जबकि यहां तीन लोगों की मौत हुई है। हालांकि, यहां अब तक 45 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं।

Dakhal News

Dakhal News 22 June 2020


betul,People gathered , pay last farewell, tribute ,son ,guard of honor

बैतूल। आमला नगर के सपूत की पार्थिवदेह बीती शाम आमला पहुंची। पार्थिव देह के अंतिम दर्शन करने और श्रद्धांजलि देने के लिए लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। लोग रूंधे गले से भारत माता की जय और वंदे मातरम् के जय घोष लगाते रहे। वीर सपूत को सोमवार को सुबह गार्ड ऑफ ऑनर देकर अंतिम विदाई दी गई। इस अवसर पर सांसद डीडी उइके, विधायक योगेश पंडाग्रे, एसडीएम सीएल चिनाप, एसडीओपी, तहसीलदार टीआई सुनील लाटा सहित मौजूद थे। सभी ने शोक संवेदनाएं व्यक्त कर सपूत के परिजनों को इस विपरित परिस्थिति में परिवार के साथ रहने का ढांढस बंधाया।   अंतिम दर्शन के लिए उमड़ा जनसैलाब   आमला की जन्मभूमि में जन्मे शहर के लाल 32 वर्षीय शैलेंद्र पुत्र शिवचरण पंवार की पार्थिव देह रविवार शाम 6 बजे भोपाल से आमला पहुंचा। पार्थिवदेह लेकर पहुंची बटालियन के समक्ष शहर के सैकड़ों युवाओं ने जय जवान, भारत माता की जय के घोष के साथ श्रद्धांजलि दी। साथ ही थाना प्रभारी सुनील लाटा सहित पुलिस बल पार्थिव शरीर के साथ पहुंचा। जगह-जगह लोगों ने पार्थिव शरीर पर फूलों की वर्षा की। गणमान्य नागरिक सहित व्यापारियों ने और जनप्रतिनिधियों ने पार्थिव शरीर को श्रद्धांजलि अर्पित की और व्यापारियों ने श्रद्धांजलि देते हुए अपने प्रतिष्ठान भी बंद कर दिए थे।   बीएसएफ में पदस्थ था जवान   शैलेन्द्र पंवार वर्ष 2011 में बीएसएफ की 55 वी बटालियन में भर्ती हुए थे। वर्तमान में उनकी पदस्थापना मेघालय के तुर्रा में थी। नौकरी के दौरान ही 11 जून को शैलेन्द्र के सिर में दर्द उठ गया था, जिन्हें उपचार के लिए गुवहाटी में भर्ती कराया गया था। उपचार के दौरान ही शनिवार सुबह 4 बजे ब्रेनहेमरेज से उनका निधन हो गया। शैलेंद्र के पिता स्वर्गीय शिवचरण पंवार रेल्वे से सेवानिवृत्त हुए थे। शैलेन्द्र के घर में मां, एक छोटा भाई और दो बड़ी बहन है। पार्थिव शरीर को देखने और श्रद्धांजलि देने के लिए हजारों की तादात में युवा पहुचे थे। पार्थिव शरीर जब आमला पंखा पहुंचा तो रास्ते मे तेज बारिश हो गई तब भी युवा देशभक्तों की तादात कम नहीं हुई।   गार्ड ऑफ ऑनर देकर दी अंतिम विदाई   पार्थिव देह लेकर आमला पहुंचे बीएसएफ के जवान सहित स्थानीय प्रशासन ने सोमवार को शैलेंद्र पंवार को गार्ड ऑफ ऑनर देकर अंतिम विदाई दी। इस दौरान बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिकों, समाजसेवियों, पत्रकारों, चिकित्सकों, व्यापारियों, राजनेताओं, ईष्टमित्रों, सामाजिक बंधुओं मौजूद थे, जिन्होंने भारत माता के सपूत को अंतिम विदाई दी। इस दौरान आमला शहर में व्यापारियों ने अपने-अपने प्रतिष्ठान भी शोक स्वरूप बंद कर लिए थे। जवान की मृत्यु से समूचे आमला शहर में शोक व्याप्त हो गया। सभी ने नम आंखों ने अपने वीर जवान को अंतिम विदाई दी।

Dakhal News

Dakhal News 22 June 2020


betul,People gathered , pay last farewell, tribute ,son ,guard of honor

बैतूल। आमला नगर के सपूत की पार्थिवदेह बीती शाम आमला पहुंची। पार्थिव देह के अंतिम दर्शन करने और श्रद्धांजलि देने के लिए लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। लोग रूंधे गले से भारत माता की जय और वंदे मातरम् के जय घोष लगाते रहे। वीर सपूत को सोमवार को सुबह गार्ड ऑफ ऑनर देकर अंतिम विदाई दी गई। इस अवसर पर सांसद डीडी उइके, विधायक योगेश पंडाग्रे, एसडीएम सीएल चिनाप, एसडीओपी, तहसीलदार टीआई सुनील लाटा सहित मौजूद थे। सभी ने शोक संवेदनाएं व्यक्त कर सपूत के परिजनों को इस विपरित परिस्थिति में परिवार के साथ रहने का ढांढस बंधाया।   अंतिम दर्शन के लिए उमड़ा जनसैलाब   आमला की जन्मभूमि में जन्मे शहर के लाल 32 वर्षीय शैलेंद्र पुत्र शिवचरण पंवार की पार्थिव देह रविवार शाम 6 बजे भोपाल से आमला पहुंचा। पार्थिवदेह लेकर पहुंची बटालियन के समक्ष शहर के सैकड़ों युवाओं ने जय जवान, भारत माता की जय के घोष के साथ श्रद्धांजलि दी। साथ ही थाना प्रभारी सुनील लाटा सहित पुलिस बल पार्थिव शरीर के साथ पहुंचा। जगह-जगह लोगों ने पार्थिव शरीर पर फूलों की वर्षा की। गणमान्य नागरिक सहित व्यापारियों ने और जनप्रतिनिधियों ने पार्थिव शरीर को श्रद्धांजलि अर्पित की और व्यापारियों ने श्रद्धांजलि देते हुए अपने प्रतिष्ठान भी बंद कर दिए थे।   बीएसएफ में पदस्थ था जवान   शैलेन्द्र पंवार वर्ष 2011 में बीएसएफ की 55 वी बटालियन में भर्ती हुए थे। वर्तमान में उनकी पदस्थापना मेघालय के तुर्रा में थी। नौकरी के दौरान ही 11 जून को शैलेन्द्र के सिर में दर्द उठ गया था, जिन्हें उपचार के लिए गुवहाटी में भर्ती कराया गया था। उपचार के दौरान ही शनिवार सुबह 4 बजे ब्रेनहेमरेज से उनका निधन हो गया। शैलेंद्र के पिता स्वर्गीय शिवचरण पंवार रेल्वे से सेवानिवृत्त हुए थे। शैलेन्द्र के घर में मां, एक छोटा भाई और दो बड़ी बहन है। पार्थिव शरीर को देखने और श्रद्धांजलि देने के लिए हजारों की तादात में युवा पहुचे थे। पार्थिव शरीर जब आमला पंखा पहुंचा तो रास्ते मे तेज बारिश हो गई तब भी युवा देशभक्तों की तादात कम नहीं हुई।   गार्ड ऑफ ऑनर देकर दी अंतिम विदाई   पार्थिव देह लेकर आमला पहुंचे बीएसएफ के जवान सहित स्थानीय प्रशासन ने सोमवार को शैलेंद्र पंवार को गार्ड ऑफ ऑनर देकर अंतिम विदाई दी। इस दौरान बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिकों, समाजसेवियों, पत्रकारों, चिकित्सकों, व्यापारियों, राजनेताओं, ईष्टमित्रों, सामाजिक बंधुओं मौजूद थे, जिन्होंने भारत माता के सपूत को अंतिम विदाई दी। इस दौरान आमला शहर में व्यापारियों ने अपने-अपने प्रतिष्ठान भी शोक स्वरूप बंद कर लिए थे। जवान की मृत्यु से समूचे आमला शहर में शोक व्याप्त हो गया। सभी ने नम आंखों ने अपने वीर जवान को अंतिम विदाई दी।

Dakhal News

Dakhal News 22 June 2020


bhopal, Monsoon ,Meteorological Department, warning ,heavy rain , MP

भोपाल। मानसून के चलते मध्यप्रदेश में हो रही बारिश के कारण मौसम विभाग ने आज भी कई जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। विभाग की माने तो रीवा- शहडोल संभागों के जिलों छिंदवाड़ा, बैतूल, बालाघाट, होशंगाबाद, रायसेन और सीहोर जिलों में भारी बारिश हो सकती है। वही अन्य जिलों में गरज-चमक के साथ हल्की बारिश होने के आसार है। इस दौरान तेज हवाओं का दौर जारी रहेगा। विभाग ने 25 जून तक मानसून के पूरे मप्र में छाने की भी संभावना जताई है।   विभाग की माने तो उड़ीसा और उसके आसपास ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। इसके प्रभाव से मानसून को ऊर्जा मिल रही है। यह सिस्टम रविवार को छत्तीसगढ़ पर आ जाएगा। इसके साथ ही मप्र में भी बरसात का दौर शुरू होने की संभावना है। सिस्टम के आगे बढऩे से सोमवार-मंगलवार को राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में अच्छी बरसात होने के आसार हैं।   जुलाई में खुल सकते है भदभदा के गेट इस बार भोपाल में मानसून की अच्छी सक्रियता देखने को मिल रही है। लगातार हो रही बारिश से जून का कोटा समय से पहले पूरा हो गया है। मानसूनी बारिश शुरू होने से पहले 17 जून को बड़े तालाब का जलस्तर 1661.60 फीट था, जो 20 जून को 1662.50 फीट हो गया। तालाब का फुल टैंक लेवल 1666.80 है। यानी भदभदा के गेट खुलने के लिए 4.30 फीट पानी की जरूरत है और अभी पूरा सीजन बाकी है। यदि इसी गति से पानी आता रहा तो जुलाई में ही भदभदा के गेट खुलने की स्थिति बन सकती है।

Dakhal News

Dakhal News 22 June 2020


bhopal, solar eclipse ,encountered , moon,afternoon

भोपाल। विश्व योग दिवस के अवसर पर रविवार को आसमान में हुई साल के पहले सूर्यग्रहण की खगोलीय घटना को देशवासियों ने विभिन्न उपकरणों की माध्यम से देखा। भोपाल में भी बदलों की लुका-छिपी के बीच हजारों लोगों ने सूर्यग्रहण का लुत्फ उठाया। इस दौरान चंद्रमा सूरज की किरणों को पृथ्वी तक पहुंचने देने में बाधक बना।    भोपाल की राष्ट्रीय अवार्ड प्राप्त विज्ञान प्रसारक सारिका घारू ने बताया कि रविवार को दिन में 10 बजकर 14 मिनट पर पृथ्वी और सूर्य के बीच ठीक सीधी रेखा में चंद्रमा आ गया। चांद ने आगे बढ़ते हुये 11 बजकर 57 मिनट पर सूर्य को लगभग 79 भाग ढंक लिया, इसके बाद यह बाहर जाते हुये 1 बजकर 47 मिनट पर सूर्य से दूर हो गया। चंद्रमा जब सूरज के सामने था तो उसका अंधेरा वाला काला भाग पृथ्वी के सामने था। सारिका ने बताया कि 3 घंटे 33 मिनट की इस ग्रहण अवधि के मध्य में सूर्य हसिया के आकार का दिखा। मध्यप्रदेश में यह आंशिक सूर्यग्रहण की घटना थी, जबकि उत्तराखंड और हरियाणा में वलयाकार सूर्यग्रहण दिखा। अब भारत में अगले वलयाकार सूर्यग्रहण के लिये 21 मई 2031 तक इंतजार करना होगा।

Dakhal News

Dakhal News 21 June 2020


dhar, Four newborns, died,a day, district hospital

धार। धार जिला मुख्यालय स्थित भोज जिला अस्पताल में शुक्रवार को एक ही दिन में रात्रि 8 बजे तक चार नवजात शिशुओं की एसएनसीयू मे मौत हो गई, जिसके चलते अस्पताल प्रशासन में हड़कंप मच गया है।   जिला चिकित्सालय के सिविल सर्जन जीपीएस ठाकुर के अनुसार, चारों बच्चों की मौत का कारण अलग-अलग है। एक बच्चे की मौत सुबह 9:00 बजे, जबकि दो बच्चे की शाम 7:00 बजे तथा एक की मौत रात 8:00 बजे हुई। जिस बच्चे की मौत रात 8:00 बजे हुई, उसको लेकर बताया जा रहा है कि मां को दूध पिलाने के लिए सौंपा गया था, उसके बाद बच्चे को जब दोबारा एसएससी में दिया गया तो उसे उल्टी हुई। डॉक्टरों द्वारा बचाने का भरसक प्रयास किया गया, लेकिन उसकी मौत हो गई। बच्चे की मौत के बाद स्वजनों ने अस्पताल में हंगामा कर दिया। बच्चे की मौत का कारण निमोनिया बताया गया है। सिविल सर्जन डॉ. ठाकुर ने बताया कि कुछ बच्चे गंभीर अवस्था में थे। जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी आरसी पालिका ने पूरे मामले में जांच के आदेश दिए हैं। प्रथम दृष्टया में लापरवाही नजर नहीं आ रही है।   

Dakhal News

Dakhal News 20 June 2020


bhopal, longest day year,  solar eclipse ,will be seen

भोपाल। विश्व योग दिवस के अवसर पर रविवार 21 जून को साल का सबसे लम्बा दिन रहेगा। इस दिन सूर्योदय प्रात: 05.35 बजे होकर सूर्यास्त शाम 07.09 बजे होगा। यानी इस दिन की अवधि 13 घंटे 34 मिनट और 01 सेकंड की रहेगी। साल के सबसे बड़े दिन में जब सूरज उत्तरायण के अंतिम स्टॉप कर्क रेखा पर पहुंचेगा, तब दोपहर के आकाश में सूरज के साथ चंद्रमा भी दिखेगा, लेकिन वह सूरज और पृथ्वी की सीध में होने से चमकता हुआ नहीं दिखकर काली छाया के रूप में दिखेगा। भोपाल की राष्ट्रीय अवार्ड प्राप्त विज्ञान प्रसारक सारिका घारू ने शनिवार को बताया कि ऐसा खंडग्रास सूर्यग्रहण की इस खगोलीय घटना के कारण होगा। इस घटना को मध्यप्रदेश के सभी शहरों में अलग-अलग समय पर देखा जा सकेगा।   उन्होंने बताया कि विश्व योग दिवस पर साल का पहला सूर्यग्रहण पड़ने जा रहा है। भोपाल में खंडग्रास सूर्यग्रहण प्रात: 10.14 से आरंभ होकर दोपहर 01.47 तक चलेगा। यहां 3 घंटे 33 मिनट के ग्रहण के दौरान अधिकतम स्थिति में 11.57 बजे सूर्य का 79 प्रतिशत भाग चंद्रमा के पीछे छिप जायेगा। उन्होंने बताया कि ग्रहण के मिथकों और अंधविश्वासों के पीछे कोई भी वैज्ञानिक आधार नहीं है और न ही इन ग्रहणों का हमारे ऊपर कोई हानिकारक प्रभाव पड़ता है।    सूर्य से नजरें मिलाना खतरनाक, प्रमाणित सोलर व्यूअर से देखें सूर्यग्रहण विज्ञान प्रसारक सारिका घारू ने नागरिकों से अपील की है कि सूर्यग्रहण को देखते समय सुरक्षित उपाय अपनाएं। सूर्य की किरणें सीधें आखों पर न पड़े, इसके लिए वैज्ञानिक रूप से प्रमाणित सोलर व्यूअर से ग्रहण देखना सबसे अच्छा होगा। इसके अलावा सूर्य की प्रतिबिंबित को किसी छोटे मिरर की मदद से दीवार पर बनाकर देख सकते हैं। अगर घर में बड़ा मिरर है तो कागज में 2 से.मी. का छिद्र बनाकर मिरर पर रखकर उससे सूर्य का प्रतिबिम्ब बनायें। बिना सोलर फिल्टर लगे टेलिस्कोप या दूरबीन के माध्यम से सूर्य को कभी न देखें। स्मोक्ड ग्लास, कलर फिल्म, धूप का चश्मा, गैर-चांदी वाली ब्लैक एंड व्हाइट फिल्म का उपयोग न करें। वे सुरक्षित नहीं हैं। सस्ते टेलिस्कोप के आई-पीस के साथ मिलने वाले सौर फिल्टर का उपयोग न करें।   सारिका ने बताया कि यदि आप सूर्य को नंगी आंखों से देखते हैं तो आपकी आंख का लेंस सूर्य के प्रकाश को आपकी आंख के पीछे रेटिना पर बहुत छोटे स्थान पर केंद्रित करेगा। इससे आपकी आंखें जल सकती हैं जिससे आंखों की रोशनी कम हो सकती है या अंधापन भी हो सकता है। क्योंकि आपकी आंख के अंदर कोई दर्द संग्राहक (पेन रिसेप्टर) नहीं होता है। इसलिए आपको पता भी नहीं चलेगा कि यह हो रहा है। अगर आपको सोलर व्यूअर नहीं मिलता है तो सूर्य को प्रत्यक्ष रूप से देखने के लिए 14 नंबर शेड वाला वेल्डर चश्मा भी एक सुरक्षित विकल्प है, लेकिन इसकी मदद से भी सूर्य को रुक-रुक कर देखें।   उन्होंने बताया कि भारत में वलयाकार सूर्य ग्रहण की शुरुआत पश्चिम राजस्थान से होगी और इसे देखने वाला पहला शहर घरसाना है। भारतीय समय के अनुसार, पहला संपर्क 10 बजकर 12 मिनट और 26 सेकंड पर शुरू होगा। वलयाकार सूर्य ग्रहण राजस्थान के अनूपगढ़, श्रीविजयनगर, सूरतगढ़ और एलेनाबाद से होते हुए हरियाणा के सिरसा, रतिया (फतेहाबाद), जाखल, पिहोवा, कुरुक्षेत्र, लाडवा, यमुनानगर से जगदरी और फिर उत्तर प्रदेश के बेहट जिले से गुजरेगा। वलयाकार ग्रहण उत्तराखंड के देहरादून, चंबा, टिहरी, अगस्त्यमुनि, चमोली, गोपेश्वर, पीपलकोटी, तपोवन तथा जोशीमठ से देखने को मिलेगा। जोशीमठ भारत का अंतिम स्थान है जहाँ से ग्रहण देखा जा सकेगा। जोशीमठ में 10 बजकर 27 मिनट और 43 सेकेंड को ग्रहण का पहला संपर्क होगा।    हरियाणा-उत्तराखंड में चमचमाते कंगन की रूप में, शेष भारत में हसियाकार दिखेगा सूर्य सारिका घारू ने बताया कि हरियाणा और उत्तराखंड में तो सूर्य को चमचमाते कंगन के रूप में देखा जा सकेगा, लेकिन मध्यप्रदेश के अन्य शहरों के साथ भोपाल में खंडग्रास सूर्यग्रहण सुबह 10.14 से आरंभ होकर दोपहर 01.47 तक चलेगा। यहां 3 घंटे 33 मिनट के ग्रहण के दौरान अधिकतम स्थिति में 11.57 बजे सूर्य का 79 प्रतिशत भाग चंद्रमा के पीछे छिप जायेगा।   उन्होंने बताया कि आवागमन की दृष्टि से कंगनाकार सूर्यग्रहण देखे जाने के लिये दिल्ली से 160 किमी उत्तर में स्थित कुरुक्षेत्र उपयुक्त स्थल है, जहां सुबह 10.21 बजे से दोपहर 01.47 बजे तक तक चलने वाले ग्रहण के दौरान लगभग 12 बजे 27 सेकंड के लिये यह चमचमाते कंगन के रूप में दिखने लगेगा। इसके अलावा, उत्तराखंड के पर्यटक स्थल देहरादून से भी 9 सेकंड के लिये वलयाकार सूर्य को देखा जा सकेगा।   अगले एन्यूलर सोलर इकलिप्स के लिये करना होगा 11 साल इंतजार  उन्होंने बताया कि 21 जून को साल के सबसे लम्बी अवधि की दिन में होने वाली इस खगोलीय घटना को वैज्ञानिक रूप से प्रमाणित सोलर व्यूअर की मदद से देखा जा सकेगा। सोलर फिल्टर लगे टेलिस्कोप से भी इसे देखा जा सकेगा। इसके बाद भारत में अगला वलयाकार सूर्य ग्रहण को 21 मई 2031 को पड़ेगा। यानी इसे देखने के लिए हमें 11 साल इंतजार करना होगा।   भोपाल में आंशिक सूर्यग्रहण का समय ग्रहण आरंभ - सुबह 10.14 बजे अधिकतम ग्रहण - अपरान्ह 11.57 बजे ग्रहण समाप्त - दोपहर  01.47 बजे  कुल ग्रहण अवधि - 3 घंटे 33 मिनट सूर्य का ढ़ंका भाग - 79 प्रतिशत वलयाकार स्थिति की अवधि - मप्र में वलयाकार ग्रहण नहीं होगा   कुरुक्षेत्र में वलयाकार सूर्यग्रहण का समय ग्रहण आरंभ - सुबह 10.21 बजे  अधिकतम ग्रहण वलयाकार ग्रहण  - दोपहर 12.01 बजे ग्रहण समाप्त -दोपहर 01.47 बजे कुल ग्रहण अवधि - 3 घंटे 26 मिनट वलयाकार स्थिति की अवधि - 27 सेकेंड   देहरादून में वलयाकार सूर्यग्रहण का समय ग्रहण आरंभ - सुबह 10.24 बजे अधिकतम ग्रहण वलयाकार ग्रहण  - दोपहर 12.05 बजे ग्रहण समाप्त -बजे 01.50 बजे कुल ग्रहण अवधि - 3 घंटे 26 मिनट वलयाकार स्थिति की अवधि - 9 सेकेंड

Dakhal News

Dakhal News 20 June 2020


bhopal, 22 new ,corona cases, found, 2418 number , infected

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। अब तो यहां नये इलाकों में संक्रमण फैलना शुरू हो गया है। यहां शुक्रवार सुबह कोरोना के 22 नए मामले सामने आए हैं। इनमें सीआरपी कालोनी बैरागढ़ में तीन मरीज शामिल है। इसके अलावा अन्य मरीज शाहजहांनाबाद, जहांगीराबाद, बैरागढ़, बरखेड़ी, तलैया क्षेत्र के हैं।   भोपाल सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी के मुताबिक, शुक्रवार को सुबह आई रिपोर्ट में 22 नये मामले सामने आने के बाद जिले में संक्रमित मरीजों की संख्या 2418 हो गई है। वहीं, अब 73 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है। हालांकि, अब तक भोपाल में 1668 लोग कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 641 है, जिनका उपचार जारी है।   उज्जैन में मिले पांच नये पॉजिटिव   वहीं, भगवान महाकाल की नगर उज्जैन में भी पांच नये कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। अब यहां संक्रमित मरीजों की संख्या बढक़र 819 हो गई है, जिनमें से 667 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच चुके हैं। नये मरीजों में चार उज्जैन एवं एक बडऩगर का रहने वाला है। अभी तक उज्जैन में कोरोना से 67 लोगों की मौत हो चुकी है।   इंदौर में 55 नये मामलों के साथ 4246 पहुंची संक्रमितों की संख्या   वहीं, प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में 55 नये मामले सामने आने के बाद संक्रमित मरीजों की संख्या संख्या 4246 जा पहुंची है। इंदौर सीएमएचओ डॉ. एमपी शर्मा ने शुक्रवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा गुरुवार देर रात 2439 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई, जिनमें 2341 निगेटिव और 55 पॉजिटिव आई हैं। इसके बाद जिले में संक्रमित मरीजों की संख्या बढक़र 4246 हो गई है। वहीं, इंदौर में चार लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। मृतकों में 58 और 80 वर्षीय दो पुरुषों तथा 74 और 61 वर्षीय दो महिलाएं शामिल हैं। इसके बाद यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 189 हो गई है। हालांकि, इंदौर में अब तक 3149 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। यहां अब सक्रिय मरीज 908 है, जिनका उपचार जारी है।  

Dakhal News

Dakhal News 19 June 2020


ujjain,Online education, children up , 5th class stopped, waiting , new order

उज्जैन। मध्यप्रदेश में हाईकोर्ट के निर्देश के बाद प्री-प्रायमरी से कक्षा पांचवीं तक के बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई व्यवस्था पर रोक लग गई है। इससे छोटे बच्चों का अभिभावकों की चिंता बढ़ गई है। अभिभावकों को समझ में नहीं आ रहा है कि वे अपने बच्चों की पढ़ाई कैसे कराएं। अब उन्हें शासन के नये आदेश का इंतजार है।    गत दिनों हाईकोर्ट ने छोटे बच्चों की ऑनलाईन पढ़ाई की व्यवस्था को लेकर दायर की गई याचिका पर फैसला दिया था, इसके बाद इसके बाद शिक्षा विभाग ने भी पांचवीं तक के बच्चों की ऑनलाईन पढ़ाई बंद करा दी। इस कक्षा तक के बच्चों को आगे कैसे पढ़ाया जाए इसके विषय में अधिकारी अब शासन के निर्देशों का इंतजार कर रहे हैं।   दरअसल, कोरोना महामारी को देखते हुए राज्य शासन ने कुछ दिन पहले आदेश जारी किए थे कि प्री-प्रायमरी से लेकर पांचवीं तक के बच्चों को स्कूल नहीं बुलाया जाएगा। उन्हें ऑनलाईन के जरिये स्कूल द्वारा घर पर ही शिक्षा दी जाएगी। इसके एवज में पालक विद्यालय को सिर्फ पूरी फीस की बजाय ट्यूशन फीस का ही भुगतान करेंगे। विद्यालय की अन्य गतिविधियों का शुल्क नहीं लिया जा सकेगा। ऐसा करने वाले विद्यालयों के खिलाफ शिकायत पर कार्रवाई भी होगी। इसके बाद निजी विद्यालयों में बच्चों को ऑनलाईन माध्यम से पढ़ाना शुरु कर दिया था, वहीं सरकार के उक्त फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट में एक वाद भी दायर हुआ था, इस पर हाईकोर्ट ने निर्णय लेते हुए ऑनलाईन पढ़ाई पर रोक लगा दी।    इस संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी रमा नाहटे ने बताया कि हाईकोर्ट के निर्देश पर प्री-प्रायमरी से लेकर 5वीं तक के बच्चों की ऑनलाईन पढ़ाई पर रोक लगाई गई है। शेष कक्षाओं की ऑनलाइन पढ़ाई जारी है। प्री-प्रायमरी से लेकर पांचवीं तक के बच्चों की आगे की पढ़ाई किस प्रकार होगी, इसके लिए शासन के दिशा निर्देश का इंतजार है। शासन के निर्देश के मुताबिक आगे की व्यवस्था की जाएगी।

Dakhal News

Dakhal News 19 June 2020


bhopal,Weather alert , Madhya Pradesh ,after two days , heavy showers

भोपाल। मध्य प्रदेश पर मेहरबान मानसून के बादल जमकर बरस रहे हैं। राजधानी भोपाल में गुरुवार देर शाम से शुरू से हुआ बारिश का सिलसिला देर रात तक जारी रहा। शुक्रवार को भी सुबह से आसमान में हल्के बादल छाए हुए हैं और मौसम खुशनुमा बना हुआ है। बंगाल की खाड़ी और अरब सागर में अभी कोई मानसूनी सिस्टम सक्रिय नहीं है। इस वजह से मानसून कुछ शिथिल बना हुआ है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक रविवार को बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बनने जा रहा है।इस सिस्टम के आगे बढऩे से मानसून शेष हिस्सों की तरफ बढ़ेगा। इसके साथ ही प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में तेज बौछारें पडऩे की संभावना है। हालांकि वातावरण में बड़े पैमाने में नमी मौजूद रहने से गरज-चमक के साथ कुछ जगहों पर बरसात होने का क्रम जारी रहेगा।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि बंगाल की खाड़ी और अरब सागर में वर्तमान में कोई सिस्टम नहीं होने से मानसून को ऊर्जा नहीं मिल रही है। 21 जून को बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। इस सिस्टम के आगे बढ़ते ही मानसून सक्रिय होकर आगे बढ़ेगा। इसके साथ ही प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में अच्छी बरसात होने की संभावना है। शुक्ला के मुताबिक वातावरण में बड़े पैमाने पर नमी मौजूद है। साथ ही मध्य अरब सागर में एक चक्रवात बना हुआ है। इससे नमी मिलने के कारण प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर गरज-चमक के साथ बरसात का क्रम भी बना हुआ है।   वहीं गुरुवार को सागर में 19, दमोह में 16, रीवा व सतना में 8, जबलपुर में 4.8, सीधी में 2 मिलीमीटर बरसात हुई। मौसम विज्ञान केंद्र के प्रवक्ता के मुताबिक 16 जून को दक्षिण-पश्चिम मानसून ने इंदौर, भोपाल (दक्षिण), रायसेन में अपनी आमद दर्ज कराई थी। तब से अभी तक मानसून आगे नहीं बढ़ा है।  

Dakhal News

Dakhal News 19 June 2020


bhopal,Corona found, again, 58 new cases ,number 2440

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में अनलॉक के बाद संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यहां अब 58 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद भोपाल में संक्रमित मरीजों की संख्या 2440 हो गई है। वहीं, भोपाल में अब तक कोरोना से 73 लोगों की मौत हो चुकी है।   भोपाल सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी के मुताबिक, गुरुवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में 58 नये पॉजिटिव मिले हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 2382 से बढक़र 2440 हो गई है। हालांकि, यहां संक्रमित मरीज लगातार स्वस्थ हो रहे हैं। अब तक भोपाल में 1668 व्यक्ति कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। फिलहाल यहां सक्रिय मरीजों की संख्या सात सौ है, जिनका उपचार जारी है।   इंदौर में मिले 57 पॉजिटिव   वहीं, इंदौर में कोरोना के 57 नये मामले सामने आए हैं। इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. एमपी शर्मा ने गुरुवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा बुधवार रात 2266 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की, जिनमें 57 पॉजिटिव और शेष निगेटिव आई हैं। इन नये मामलों के साथ अब जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 4191 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से तीन लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। इसके बाद इंदौर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 185 हो गई है। हालांकि, अभी तक इंदौर में 3131 मरीज कोरोना से जंग जीत चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 875 है, जिनका उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 18 June 2020


bhopal,Southwest monsoon, progressed further, heavy rain, three days

भोपाल। दक्षिण-पश्चिम मानसून मध्यप्रदेश में कुछ और आगे बढ़ा है। इंदौर, भोपाल के दक्षिणी क्षेत्र व रायसेन में मानसून ने दस्तक दे दी है। हालांकि वर्तमान में कोई शक्तिशाली वेदर सिस्टम नहीं बनने से अभी तीन दिन तक अच्छी बरसात होने की संभावना कम है। 19 जून को बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बनने जा रहा है। उसके असर से 20 जून के बाद वर्षा की गतिविधियों में तेजी आएगी। बुधवार की रात भोपाल समेत आसपास के इलाकों में तेज हवा के साथ जोरदार बारिश हुई। भोपाल में बीती रात 4.8 मिमी, रायसेन में 7, भोपाल एयरपोर्ट में 3.4 मिमी. बरसात दर्ज की गई।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक उदय सरवटे ने जानकारी देते हुए बताया कि मानसून पश्चिमी मध्य प्रदेश के कुछ और हिस्से उत्तरी मप्र के अधिकांश हिस्से तथा उत्तरी उत्तर प्रदेश के कुछ और हिस्से में प्रवेश कर गया है। मानसून की उत्तरी सीमा कांडला, अहमदाबाद, इंदौर, भोपाल के दक्षिणी भाग, रायसेन, खजुराहो, फतेहपुर एवं बहराइच से होकर गुजर रही है। मौसम विज्ञानी पीके साहा ने बताया कि मानसून के राजधानी के दक्षिणी हिस्से में प्रवेश किया है। हालांकि वर्तमान में कोई शक्तिशाली वेदर सिस्टम के सक्रिय नहीं रहने के कारण तेज और लगातार बरसात के आसार नहीं हैं। वातावरण में बड़े पैमाने पर नमी मौजूद रहने से रुक-रुक कर बौछारें पडऩे का सिलसिला अभी बना रहेगा।   19 जून को बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बनने जा रहा है। इसके आगे बढऩे के बाद मानसून की सक्रियता राजधानी सहित पूरे प्रदेश में बढ़ेगी। वर्तमान में पूर्वी उत्तर प्रदेश और उसके आसपास एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। एक द्रोणिका लाइन (ट्रफ) उत्तर पश्चिम राजस्थान से पूर्वी उत्तर प्रदेश के बीच बनी है। ये हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश से गुजर रही है जो 900 मीटर की ऊंचाई तक बनी हुई है। इस वजह से वातावरण में नमी आ रही है। इसके चलते प्रदेश के कई स्थानों पर गरज-चमक के साथ रुक-रुक कर बौछारें पड़ रही हैं।   आज जारी हुए अनुमान के अनुसार अगले 12 से 18 घंटों के राज्य के अनूपपुर, छतरपुर, दमोह, जबलपुर, कटनी, मंडला, नरसिंहपुर, पन्ना, रायसेन, रीवा, सागर, सतना, सिवनी, शहडोल, उमरिया, सीधी आदि शहरों में तेज हवा, धूल भरी आंधी, कहीं हल्की तो कहीं भारी बारिश होने की संभावना है। 

Dakhal News

Dakhal News 18 June 2020


gwalior, Zoo Corporation ,has been closed, since the lockdown

ग्वालियर। पूरे साल में नगर निगम को एक करोड़ 35 लाख कमाकर देने वाला गांधी प्राणी उद्यान (चिडिय़ाघर) बीते 83 दिन से बंद है। कोरोना के चलते लगाए गए लॉकडाउन के साथ ही इसे भी ऐहतियात के तौर पर लॉक कर दिया गया था और अब तक इसे अनलॉक करने का फरमान शासन की ओर से नहीं आया है। वैसे देश के 200 चिडिय़ाघरों का भी यही हाल है और मात्र पटना जू ओपन है, इधर हालात यह हैं कि पहले से ही आर्थिक तंगी का रोना रो रहे निगम को अब हर माह 12 लाख रुपये यहां पिंजरों में बंद वन्यप्राणियों पर तिजोरी से खर्च करने पड़ रहे हैं, वहीं स्टाफ का खर्च अलग है। जो इन दिनों यहां पूरा समय बैठकर गुजार रहे हैं, क्योंकि सैलानियों के प्रवेश पर बैन है। यानि अब तक तीस लाख रुपये का नुकसान निगम को हो चुका है। निगम को इससे सालाना आय एक करोड़ 35 लाख बताई गई है।                  चिडिय़ाघर प्रबंधन की मानें तो इससे निगम को कोई अतिरिक्त आय नहीं होती, बल्कि सैलानियों और यहां कुछ कैंटीन आदि को दिए गए ठेके से जो आय होती है, वह इसी पर खर्च हो जाती है, जिस पर बीते 83 दिन से रोक लगी हुई है। यह बंदोबस्त निगम के खाते से सीधे हो रहा है। यदि कुछ दिन और यह बंद रहा तो फिर निगम पर बोझ भी बढ़ेगा।   चिडिय़ाघर बच्चों के लिए बेहद पसंदीदा होता है, वन्य प्राणियों को साक्षात देखना उन्हे खूब भाता है, इस सीजन में जबकि जू में समर वेकेशन होने के कारण काफी भीड़ रहती थी, इस बार सूना पड़ा है। बच्चों के लिए यह दोहरी दिक्कत है, लॉकडाउन के चलते वह पहले तो लंबे समय तक घर से नहीं निकल पाए, वहीं जब बाहर जाने की छूट मिली तो फिर सभी पर्यटन स्थल विशेषकर उनकी पहली पसंद चिडिय़ाघर बंद पड़ा है।   यही नहीं है कि सैलानी ही इससे परेशान हों, बल्कि लोगों को सामने देखने के आदि हो चुके वन्य प्राणी भी अनमने हो चुके हैं। ऐसे में धीरे-धीरे इन्हे शांत वातावरण में रहने की आदत पड़ चुकी है, तब जू खुलने के बाद इनकी प्रतिक्रिया लोगों को देखकर क्या होगी, यह भी डॉक्टरों के लिए चिंता का विषय है। 

Dakhal News

Dakhal News 18 June 2020


bhopal, Devotees engaged , preparations, Gupta Navratri ,worship

भोपाल। आगामी सोमवार यानी 22 जून से गुप्त नवरात्र शुरू हो रहे हैं, जो कि 8 दिन रहेंगे। इस पर्व को लेकर श्रद्धालु मां भवनी के भक्तमाता की आराधना की तैयारियों में जुट गए हैं। इस बार गुप्त नवरात्र आठ दिन मनाया जाएगा, क्योंकि इस बार पंचमी और षष्टी तिथि एक ही दिन शुक्रवार को रहेंगी। इसमें षष्ठी तिथि का लुप्त हो जाएगी।    ज्योतिषाचार्यों ने अनुसार, नवरात्रि साल में चार बार आती हैं, जिनमें दो गुप्त नवरात्रि होती है। इसकी शुरुआत माघ महीने में होती है, माघ शुक्ल पक्ष में प्रथम नवरात्रि त्रिपदा से नवमी तक रहती है, इन्हें गुप्त नवरात्रि कहा जाता है। दूसरी चैत्र महीने में चैत्र शुक्ला प्रतिपदा से नवमी तक रहती हैं, इसे बसंत नवरात्रि कहते हैं। तीसरे अषाढ़ शुक्ल प्रतिपदा से नवमी तक रहती हैं, इन्हें गुप्त नवरात्रि कहते हैं। चौथी अश्वनी माह में अश्वनी शुक्ला प्रतिपदा से नवमी तक रहती है।   सिद्धी साधना का है विशेष महत्व   भोपाल ज्योतिष संस्थान मठ के ज्योतिषाचार्य पंडित विनोद गौतम के अनुसार, माघ में और आषाढ़ माह में जो नवरात्रि आती हैं उन्हें गुप्त नवरात्रि कहा जाता है। इसमें विशेष साधना एवं उपासना की जाती है। तंत्र-मंत्र, यंत्र, के प्रयोजन के लिए साधना और सिद्धि का नवरात्रि गुप्त नवरात्रि का अवसर बहुत विशेष मना जाता है। व्यवसाय में वृद्धि, रोजगार, रोग निवारण समेत अन्य मनोकामनाओं के लिए साधना की जा सकती है।    गौरतलब है कि चैत्र नवरात्रि एवं शारदीय नवरात्रि को सार्वजनिक रूप में मनाया जाता है। लेकिन गुप्त नवरात्रि को सामान्य जन विशेष रूप से नहीं जानते हैं। लेकिन मंत्र-तंत्र साधना में गुप्त नवरात्र का विशेष महत्व है। अनेक प्रकार से रात्रि में उनकी साधना की जाती है जिससे सभी मनोरथ सिद्घ होते हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 17 June 2020


bhopal, Madhya Pradesh,  infected ,60 new cases, 11129, 480 deaths

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों का रिकवरी रेट 71 फीसदी से अधिक होने के बाद भी नये मामलों में कमी नहीं आ रही है। यहां अब तीन जिलों में 60 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद राज्य में संक्रमित मरीजों की संख्या बढक़र 11 हजार 129 हो गई है। वहीं, प्रदेश में कोरोना से अब तक 480 लोगों की मौत हो चुकी है।    इंदौर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. एमपी शर्मा ने बुधवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा मंगलवार देर रात 1687 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की, जिनमें 44 नये पॉजिटिव मिले हैं। इसके बाद जिले में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 4134 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से चार लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। इसके बाद यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 182 हो गई है। इसके अलावा नीमच में 13 और उज्जैन में तीन नये पॉजिटिव सामने आए हैं।   इन नये 60 मामलों के साथ अब राज्य में संक्रमित मरीजों की संख्या 11,129 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 4134, भोपाल 2283, उज्जैन 808, खंडवा 282, बुरहानपुर 388, जबलपुर 317, खरगौन 228, धार 140, ग्वालियर 262, नीमच 408, मंदसौर 96, सागर 262, मुरैना 148, देवास 179, रायसेन 85, भिंड 119, बड़वानी 70, होशंगाबाद 37, रतलाम 111, रीवा 39, विदिशा 40, बैतूल 38, सतना 22, छतरपुर 48, डिंडौरी 30, दमोह 29, आगरमालवा 16, झाबुआ 15, अशोकनगर 41, शाजापुर 47, सीधी 17, सिंगरौली 12, दतिया 21, शहडोल 15, बालाघाट 12, श्योपुर 60, शिवपुरी 21, टीकमगढ़ 22, छिंदवाड़ा 31, नरिसंहपुर 19, सीहोर 11, उमरिया 10, पन्ना 22, अलीराजपुर 03, अनूपपुर 29, हरदा 21, राजगढ़ 46, गुना 12, मंडला 05, सिवनी 02 निवाड़ी 07 और कटनी 09 मरीज शामिल हैं।    इंदौर में हुई चार मौतों के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 480 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 182, भोपाल 73, उज्जैन 67, बुरहानपुर 23, खंडवा 17, जबलपुर 12, खरगौन 14, ग्वालियर 02, धार 05, मंदसौर 09, नीमच 07, सागर 16, देवास 10, रायसेन 05, होशंगाबाद 03, सतना 02, आगरमालवा 01, झाबुआ 01, अशोकनगर 01, शाजापुर 03, दतिया 01, छिंदवाड़ा 02, सीहोर 02, उमरिया 01, रतलाम 05, बड़वानी 03 मुरैना 01, राजगढ़ 04, श्योपुर 02, टीमकगढ़ 01, रीवा 01, गुना 01, कटनी 01 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है। हालांकि, राज्य में अब तक 8152 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिम मरीजों 2501 है, जिनका उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 17 June 2020


bhopal,Meteorological Department ,issued yellow alert, warning ,heavy rain

भोपाल। मध्य प्रदेश में इस बार मानसून ने तय समय पर दस्तक दे दी है। बैतूल के रास्ते मध्यप्रदेश में आए मानसून के बादल प्रदेश के 52 में से 22 जिलों में बरस चुके हैं। सरकारी मौसम विभाग ने आने वाले 24 घंटों में 17 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। राजधानी भोपाल में सुबह से आसमान में बादलों के बीच सूरज की लुकाछिपी चल रही है। मंगलवार रात बारिश होने और बुधवार सुबह से बादल छाने से मौसम में ठंडक का अहसास हो रहा है।   मध्यप्रदेश के कितने इलाकों में हो चुकी है मानसून की पहली बारिश   मौसम विभाग के मुताबिक दक्षिण-पश्चिम मानसून ने प्रदेश के होशंगाबाद, इंदौर, शहडोल और जबलपुर संभाग के ज्यादातर जिलों में दस्तक दे दी है। वहीं उज्जैन संभाग के कुछ जिलों में भी मानसून ने अपनी उपस्थिति दर्ज करा दी है। प्रदेश में पिछले 24 घंटे के दौरान मानसून की पहली बारिश इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर संभाग के साथ ही उज्जैन, होशंगाबाद में दर्ज की गई।   17 जिलों में भारी बारिश का पूर्वानुमान   मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटे के दौरान 17 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई हैं। इसके लिए यलो अलर्ट जारी कर दिया है। वहीं भोपाल सहित रीवा, शहडोल, जबलपुर, होशंगाबाद, इंदौर, उज्जैन, ग्वालियर व चंबल संभाग में गरज चमक के साथ बौछारें पडऩे की उम्मीद है। इधर, आगामी 48 घंटे के दौरान मानूसन के पूर्वी मध्यप्रदेश की तरफ बढऩे की पूरी संभावना है। मानसून की उत्तरी सीमा कांडला अहदाबाद, इंदौर, नरसिंहपुर, उमरिया एवं बलिया से होकर गुजर रही है।   इन 17 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी   मौसम विभाग के अनुसार अनूपपुर, बड़वानी, बैतूल, छिंदवाड़ा, धार, डिंडोरी, होशंगाबाद, हरदा, झाबुआ, खरगौन, नरसिंहपुर, रीवा, सिवनी, शहडोल, सीधी, सिंगरौली, उमरिया में आने वाले 24 घंटों के दौरान भारी बारिश की चेतावनी है। इसके लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है।

Dakhal News

Dakhal News 17 June 2020


indore, corona accounts,2190 new cases,  4090 infected, 178 deaths

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यहां अब 21 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 4090 हो गई है। वहीं, चार लोगों की मौत के बाद यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 178 हो गई है।   इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. एमपी शर्मा ने मंगलवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा सोमवार को देर रात 1236 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई, जिनमें 21 रिपोर्ट पॉजिटिव और शेष निगेटिव आई हैं। इन नये 21 मामलों के साथ जिले में संक्रमित मरीजों की संख्या बढक़र 4090 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से चार लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। मृतकों में एक 63 वर्षीय महिला के साथ 56, 67 और 82 वर्षीय तीन पुरुष शामिल हैं। इसके बाद इंदौर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 178 हो गई है।    सीएमएचओ डॉ. शर्मा ने बताया कि इंदौर में संक्रमित मरीज तेजी से स्वस्थ होकर अपने घर लौट रहे हैं। अब तक यहां 2982 मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर लौट चुके हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 930 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।   भोपाल में भी मिले 48 नये पॉजिटिव इधर, राजधानी भोपाल में भी कोरोना के 48 नये मामले सामने आए हैं। सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी के अनुसार, यहां सोमवार देर रात आई रिपोर्ट में 48 नये पॉजिटिव मिले हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 2284 हो गई है। वहीं, भोपाल में अब तक कोरोना से 73 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि यहां अब तक 1564 मरीज पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं। सक्रिय मरीजों की संख्या 500 है, जिनका उपचार जारी है।  

Dakhal News

Dakhal News 16 June 2020


Khandwa,  doors Omkareshwar temple ,open at 5 am ,Brahma Muhurta

खंडवा। लॉकडाउन लगने के बाद से बीते तीन महीनों से बंद ओंकारेश्वर ज्योर्तिलिंग के कपाट मंगलवार सुबह 5.00 बजे ब्रह्म मुहूर्त में श्रद्धालुओं के लिए खोल दिये गए। इससे पहले मंदिर में ब्रह्म आरती की गई। पूर्व पंजीयन की अनिवार्यता के चलते मंगलवार को मंदिर में भक्तों की संख्या कम रही।    मंगलवार को मंदिर में भक्तों को सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए दर्शन कराए गए। श्रद्धालु गर्भ गृह के बाहर करीब 25 फीट दूर से भगवान ज्योतिर्लिंग के दर्शन कर रहे हैं। मंदिर के बाहर थर्मल स्क्रीनिंग और हाथ धुलवाने के बाद मंदिर में प्रवेश दिया गया। प्रत्येक दो घंटे बाद मंदिर में लगी रेलिंग व अन्य स्थानों को सैनिटाइज किया जा रहा है। मंदिर की सीईओ और एसडीएम ममता खेड़े ने बताया कि पहले दिन कम पंजीयन हुए हैं। सीसीटीवी कैमरों से भी व्यवस्थाओं पर नजर रखी जा रही है।   

Dakhal News

Dakhal News 16 June 2020


bhopal,Meteorological Department, issued warning , heavy rain,17 districts

भोपाल।  मध्यप्रदेश में मानसून के प्रवेश करते ही कई जिलों में बारिश और आंधी का दौर शुरू हो गया है। सोमवार को भोपाल सहित प्रदेश के 22 जिलों में बारिश की शुरुआत हो गई। मानसून ने तय समय पर दस्तक दी है। मंगलवार को भी राजधानी भोपाल समेत कई इलाकों में जोरदार बारिश हो रही है। मौसम विभाग के मुताबिक दक्षिण-पश्चिम मानसून ने प्रदेश के होशंगाबाद, इंदौर, शहडोल और जबलपुर संभाग के ज्यादातर जिलों में दस्तक दे दी है। वहीं उज्जैन संभाग के कुछ जिलों में भी मानसून ने अपनी उपस्थिति दर्ज करा दी है। प्रदेश में पिछले 24 घंटे के दौरान मानसून की पहली बारिश इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर संभाग के साथ ही उज्जैन, होशंगाबाद में दर्ज की गई।   मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटे के दौरान 17 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई हैं। इसके लिए यलो अलर्ट जारी कर दिया है। वहीं भोपाल सहित रीवा, शहडोल, जबलपुर, होशंगाबाद, इंदौर, उज्जैन, ग्वालियर व चंबल संभाग में गरज चमक के साथ बौछारें पडऩे की उम्मीद है। इधर, आगामी 48 घंटे के दौरान मानूसन के पूर्वी मध्यप्रदेश की तरफ बढऩे की पूरी संभावना है। मानसून की उत्तरी सीमा कांडला अहदाबाद, इंदौर, नरसिंहपुर, उमरिया एवं बलिया से होकर गुजर रही है।   - एक द्रोडिक़ा उत्तर पश्चिम राजस्थान से पश्चिम बंगाल के गंगा के क्षेत्र तक जा रही है जो उत्तरी राजस्थान उत्तरी मप्र एवं झारखंड से होकर गुजर रही है, जो हवा के ऊपरी भाग में 9010 मीटर की ऊंचाई तक बना हुआ है। एक कम दबाव का क्षेत्र उत्तरी बंगाल की खाड़ी एवं उससे लगे क्षेत्र में 19 जून को बनने की संभावना है। इससे मप्र में मानसून कमजोर हो सकता है।   इन 17 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी मौसम विभाग के अनुसार अनूपपुर, बड़वानी, बैतूल, छिंदवाड़ा, धार, डिंडोरी, होशंगाबाद, हरदा, झाबुआ, खरगौन, नरसिंहपुर, रीवा, सिवनी, शहडोल, सीधी, सिंगरौली, उमरिया में आने वाले 24 घंटों के दौरान भारी बारिश की चेतावनी है। इसके लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है।   भोपाल में आधा घंटे में हुई 13.8 मिलीमीटर बारिश इधर, सोमवार को राजधानी में सुबह से धूप खिली, दोपहर को बादल छाए और हल्की बौछारें पडऩे लगी। 12 बजे से 10 मिनट बौछारें पड़ीं। इसके बाद दोपहर 3 बजे से हल्की बारिश होना शुरू हुई। करीब 15 दिन चलने वाली इस बारिश से शहर में 13.8 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है।  

Dakhal News

Dakhal News 16 June 2020


bhopal, Kanha tiger reserve, again open ,for tourists

भोपाल। देश के सर्वाधिक लोकप्रिय टाइगर रिजर्व में से एक कान्हा राष्ट्रीय उद्यान में सोमवार से वापस पर्यटन शुरू हुआ। पहले दिन खटिया प्रवेश द्वार से 9 वाहन में 36 और मुख्य प्रवेश द्वार से 10 वाहन में 40 पर्यटकों ने प्रवेश किया।   उल्लेखनीय है कि कोरोना संक्रमण के कारण मार्च से कान्हा राष्ट्रीय उद्यान पर्यटकों के लिये बंद कर दिया गया था। कोविड-19 के संक्रमण को ध्यान में रखते हुए केन्द्र और प्रदेश शासन के दिशा-निर्देशों के अनुसार पुन: पर्यटकों के लिये खोला गया है। सफारी के लिये ऑनलाइन टिकिट सुविधा पहले की तरह बहाल कर दी गई है। अलग-अलग समूहों से आये 4 पर्यटकों को एक वाहन में प्रवेश दिया गया। जबकि एक ही परिवार से आये 6 लोग एक वाहन में बैठे। केन्टर वाहनों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिये 18 की जगह 12 व्यक्ति और दो गाइड के स्थान पर एक गाइड को ही अनुमति दी गई।   पार्क में 10 वर्ष से कम और 65 वर्ष से अधिक उम्र के पर्यटकों को प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। गाइडलाइन के अनुसार पर्यटक कर्मचारी, गाइड और वाहन चालकों ने मास्क के साथ थर्मल स्क्रीनिंग और सुरक्षा के सभी इंतजामों के बाद भ्रमण आरंभ किया।  

Dakhal News

Dakhal News 15 June 2020


ujjain, Four children, die , village ,due to drowning, Dame

उज्जैन/खाचरौद। जिले के खाचरौद विकासखंड के समीप स्थित महिदपुर क्षेत्र के गांव सादलपुर खेड़ा के रुदाहेड़ा डेम में शुक्रवार शाम को डूबने से चारों बच्चों की मौत हो गई। चारों के शव देर रात निकाले गए और शनिवार सुबह शव का झारड़ा शासकीय अस्पताल में पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिए गए। इस घटना से गांव में मातम छा गया और रातभर लोग शोक मनाते रहे। गांव के कई घरों में चूले नहीं जले। बच्चों के शव देख परिजन बेसुध हो गए। शनिवार दोपहर को बच्चों का अंतिम संस्कार हुआ, चारों बच्चे एक ही समाज मालवीय के व दोस्त थे। चारों बच्चों की अंतिम यात्रा एक साथ निकली।   जानकारी के अनुसार 16 वर्षीय कुलदीप पुत्र रतनलाल, 14 वर्षीय अखिलेश पुत्र बालाराम, 15 वर्षीय राजेश पुत्र बाबूलाल और 11 वर्षीय आनंद पुत्र रामलाल शुक्रवार शाम 5 बजे घर से खेलने का कह कर निकले थे। बच्चे खेलते-खेलते डेम पर पहुंच गए और कपड़े उतारकर नाहने अंदर चले गए। शाम तक जब बच्चे घर पर नहीं पहुंचे तो परिजन उन को तलाशना प्रारंभ किया तो किसी ने बताया कि चारों बच्चे डेम की ओर गए थे। परिजन जब डेम पर पहुंचे तो बाहर बच्चों के कपड़े देख उनके होश उड़ गए और रोने लगे, यह नजारा देख पूर गांव डेम पर एकत्रित हो गया और बच्चों को तलाशने के पानी में गए। देर रात तक सभी बच्चों के शव बाहर निकाले गए, शव एक मछली के जाल में लपटे हुए थे। बताया जा रहा है कि नाहते समय बच्चे जाल में फंस गए थे। शनिवार को हुए अंतिम संस्कार में महिदपुर विधायक बाहदुरसिंह चौहान, तराना विधायक महेश परमार समेत जिले के कई भाजपा व कांग्रेस नेता मौजूद थे। इधर झारड़ा पुलिस ने मृग कायम कर मामले की जांच प्रांरभ की है।    कुल का चिराग बूझा    इस घटना से एक परिवार के कुल का चिराग बूझ गया। मृतक आनंद अपने माता-पिता का एक मात्र साहरा था। चारों मृतक के पिता खेती करते है। अंतिम संस्कार में पूरा गांव उमड़ा व आसपास के गांव से भी कई लोग शामिल हुए। कई जनप्रतिनिधियों ने मृतक के परिजनों को आर्थिक साहयता का आश्वसन दिया।   

Dakhal News

Dakhal News 13 June 2020


raisen,Naib Tehsildar ,Sanitized Shoes ,From Driver

रायसेन। रायसेन जिले में एक महिला नायब तहसीलदार द्वारा अपने वाहन के चालक से जूते सैनिटाइज कराने का मामला सामने आया है। शनिवार को उनकी चालक से जूते सैनिटाइज कराते हुए एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। हालांकि, नायब तहसीलदार ने इस सामान्य बात बताई है, लेकिन उनके इस कारनामे को लेकर सवाल उठ रहे हैं।   जानकारी के मुताबिक, रायसेन तहसील में पदस्थ नायब तहसीलदार शिवांगी खरे बीते दिनों शहर के वार्ड 13 के जोखिम क्षेत्र में गई थीं। यहां उन्होंने अपने सरकारी वाहन चालक से जूते सैनिटाइज कराए। इसकी फोटो शनिवार को सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इससे बाद इस मामले को लेकर चर्चाएं शुरू हो गई हैं।    दरअसल, शहर में कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद से ही सभी छोटे-बड़े अधिकारी लगातार प्रभावित क्षेत्रों में भ्रमण कर रहे हैं और लोगों के बीच जाकर उन्हें समझा भी रहे हैं, लेकिन ऐसी स्थिति कभी सामने नहीं आई।   इस संबंध में नायब तहसीलदार शिवांगी खरे का कहना है कि वार्ड से फोन आया था कि पॉजिटिव मरीज के परिजन बाहर घूम रहे हैं। हम उन्हें समझाने के लिए गए थे। इस दौरान एक परिजन हम सभी के बहुत नजदीक से निकला, उसके बाद सभी ने अपने को सैनिटाइज किया था। मैं खुद अपने हाथों से सैनिटाइजर का स्प्रे कर रही थी, लेकिन जूते पर स्प्रे नहीं कर पा रही थी, जिसे देखकर चालक ने आकर मेरे हाथ से सैनिटाइजर लेकर स्प्रे कर दिया था। इसके पीछे कोई और मानसिकता नहीं थी। यह सब अचानक और सामान्य ही हुआ है।  

Dakhal News

Dakhal News 13 June 2020


bhopal, Petrol diesel, prices increased ,capital again , Friday night

भोपाल। बीते 10 दिनों से चल रहा पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि का सिलसिला लगातार जारी है। सरकार द्वारा दाम बढ़ाए जाने के बाद शुक्रवार रात से राजधानी भोपाल में पेट्रोल-डीजल और महंगे हो गए हैं। यहां अब पेट्रोल के दाम 82.64 रुपये तो डीजल के 73.14 रुपये हो गए हैं।      लॉकडाउन खुलते ही सरकार ने पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ाना शुरू कर दिया है। यही कारण है कि एक जून से लेकर 12 जून के बीच पेट्रोल 3.42 रुपए तो डीजल 3.25 रुपए लीटर महंगा हो गया। राज्य सरकार ने शुक्रवार रात 12 बजे से पेट्रोल और डीजल पर एक-एक रुपए बढ़ाने का निर्णय ले लिया। इस तरह भोपाल में पेट्रोल 82. 64 रुपए और डीजल करीब 73.14 रुपए लीटर बिक रहा है। इस वृद्धि के पीछे तर्क यह दिया जा रहा है कि कोरोना काल में हुई राजस्व की क्षति की भरपाई इससे हो जाएगी। एक जून से छह जून तक तो पेट्रोल और डीजल के दाम घटते-बढ़ते रहे, लेकिन 06 जून के बाद से लगातार पेट्रोल और डीजल के दाम में वृद्धि हुई है।    गौरतलब है कि अप्रैल और मई के महीने में भोपाल में पेट्रोल 77 रुपए प्रति लीटर और डीजल 68 रुपए प्रति लीटर के आसपास ही बिका। शुक्रवार को इनकी कीमत क्रमशः 81.01 रुपए प्रति लीटर और 71.56 रुपए प्रति लीटर रही। सिर्फ इन्हीं महीनों की बात करें तो क्रूड ऑयल की कीमत में 10 डॉलर की गिरावट होने पर ग्राहकों को कोई फायदा नहीं हुआ, लेकिन जैसे ही क्रूड ऑयल की कीमत में 7 डॉलर की वृद्धि हुई तो पेट्रोल 3.42 और डीजल 3.25 रुपए तक महंगा हो गया है।   

Dakhal News

Dakhal News 13 June 2020


indore,57 new corona cases, found , number of infected ,crosses four thousand

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यहां अब 57 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या चार हजार के पार पहुंच गई है। वहीं, इंदौर में अब तक कोरोना से 166 लोगों की मौत हो चुकी है।   इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. एमपी शर्मा ने शनिवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा शुक्रवार को देर रात 2131 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की, जिनमें 57 रिपोर्ट पॉजिटिव और शेष निगेटिव आई हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 4029 हो गई है। वहीं, कोरोना से दो लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। इसके बाद इंदौर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 166 हो गई है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि यहां अब तक 2701 संक्रमित मरीज पूरी तरह ठीक हो चुके हैं और अस्पतालों से डिस्चार्ज होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब शहर में सक्रिय मरीजों की संख्या 1162 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।   भोपाल में भी मिले 63 नये मामले   इधर, राजधानी भोपाल में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रभाकर तिवारी ने बताया कि शुक्रवार को देर रात 1964 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई, जिनमें कोरोना के 63 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 2145 हो गई है। वहीं, अब तक भोपाल में कोरोना से 69 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि, यहां अब तक 1454 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब शहर में संक्रमित मरीजों की संख्या पांच के करीब है, जिनका उपचार जारी है।   नीमच में मिले 12 नये पॉजिटिव   इंदौर-भोपाल के बाद हॉटस्पाट बने प्रदेश के नीमच जिले में भी 12 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। यहां शुक्रवार को देर रात 226 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी हुई, जिनमें से 12 पॉजिटिव निकले हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 373 हो गई है। जिले में कोरोना से अब तक आठ लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि, यहां अब तक 287  मरीज स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं।    

Dakhal News

Dakhal News 13 June 2020


bhopal,Monsoon, moving fast, towards Madhya Pradesh,three days

भोपाल। भीषण उमस से परेशान हो रहे लोगों के लिए अच्छी खबर है। मप्र में दक्षिण-पश्चिम मानसून लगातार आगे बढ़ रहा है। मानसून के 14 जून को प्रदेश के दक्षिणी इलाके में दस्तक देने की संभावना है। उधर, मानसून के आगाज के चलते शनिवार से भोपाल, जबलपुर, इंदौर एवं उज्जैन संभाग के जिलों में गरज-चमक के साथ तेज बौछारें पडऩे का सिलसिला शुरू हो सकता है।   मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक मानसून महाराष्ट्र के कुछ हिस्से तेलंगाना के शेष भाग, छत्तीसगढ़ के कुछ भाग, बंगाल की खाड़ी के शेष भाग, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, उड़ीसा और पश्चिम बंगाल में प्रवेश कर गया है। इसी तरह हरनई बारामती बीड़, वर्धा रायपुर संबलपुर बारीपदा, वर्धमान एवं सिलीगुड़ी में मानसून पहुंच गया है। अगले 14 जून के आसपास मानसून के अरब सागर के कुछ और हिस्से, मुंबई, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़ के कुछ और हिस्से दक्षिण गुजरात के कुछ हिस्से दक्षिणी मध्य प्रदेश, झारखंड बिहार के कुछ इलाकों में पहुंचने की संभावना है।   तीन दिन तक अच्छी बरसात के आसार वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक शैलेन्द्र नायक के मुताबिक वर्तमान में बंगाल की खाड़ी, उत्तरी आंध्र प्रदेश, तटीय उड़ीसा पर एक गहरा कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। वहीं दक्षिण-पूर्व मप्र पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। हरियाणा के दक्षिण भाग से तटीय आंध्रप्रदेश तक एक ट्रफ (द्रोणिका लाइन) बना हुआ है, जो उत्तरी मप्र से होकर गुजर रहा है। इन तीन सिस्टम के कारण अरब सागर और बंगाल की खाड़ी से नमी आ रही है। इस वजह से प्रदेश में कुछ स्थानों पर गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ रही हैं। शनिवार से भोपाल, जबलपुर, इंदौर, उज्जैन, होशंगाबाद संभाग के जिलों में तेज बौछारें पडऩे का सिलसिला शुरू हो सकता है। रविवार से वर्षा की गतिविधियों में और तेजी आएगी।  

Dakhal News

Dakhal News 13 June 2020


bhopal,Guidelines, rescue , Kovid 19 , followed ,Rajya Sabha election

भोपाल। आगामी 19 जून को होने वाले राज्यसभा निर्वाचन के दौरान कोरोना संक्रमण (कोविड-19) से बचाव की सभी गाइडलाइन का पालन किया जायेगा। सम्पूर्ण निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान कोरोना से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंस सहित अन्य सभी उपायों का ध्यान रखा जायेगा। यह जानकारी शुक्रवार को संभागायुक्त कवीन्द्र कियावत ने राज्यसभा निर्वाचन की व्यवस्थाओं के संबंध आयोजित बैठक में दी।    संभागायुक्त कियावत ने निर्देश दिए कि विधानसभा के सभी प्रवेश द्वारों पर स्क्रीनिंग टीम रहे। कोई भी स्क्रीनिंग से छूटने नहीं पाए। प्रवेश के स्थान पर पल्स ऑक्सीमीटर और थर्मल गन रखी जाये। विधायकों सहित निर्वाचन ड्यूटी में लगे विधानसभा के अधिकारी-कर्मचारियों की संख्या के मान से सैनिटाइजर काउंटर रहेंगे। सभी से नो-कोविड कॉन्टेक्ट डिक्लेरेशन लिया जायेगा। सभी को मास्क, ग्लब्स,  सेनीटाइजर, कोविड सुरक्षा निर्देश का पंपलेट दिया जायेगा।   बैठक में बताया गया कि मतदान स्थल पर डिसइन्फेक्शन प्रोटोकॉल और सैनिटाइजेशन का चुनाव की हर प्रक्रिया में पालन कराया जायेगा। पानी की पैक्ड बॉटल और पर्याप्त संख्या में  डस्टबिन आदि रहेंगे। शौचालय पूरी तरह से स्वच्छ रहेंगे और समय-समय पर सैनिटाइज होंगे। सभी विधानसभा सदस्यों के निज सहायकों, ड्राइवर, गनमैन आदि  को विधानसभा के  बाहर एक टेंट लगाकर उन्हें उसमे रोका जाएगा।    बैठक के बाद विधानसभा में राज्यसभा निर्वाचन की व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया गया। इस अवसर पर विधानसभा के प्रमुख सचिव ए.पी.सिंह, डीआईजी इरशाद वली, जिला कलेक्टर तरूण कुमार पिथोड़े, नगर निगम आयुक्त वी.एस.चौधरी कोलसानी, अपर संचालक जनसम्पर्क मंगला प्रसाद मिश्रा, अधीक्षक हमीदिया चिकित्सालय अरुण कुमार श्रीवास्तव सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

Dakhal News

Dakhal News 12 June 2020


bhopal,Monsoon , knock heavy rainfall, many districts, June 15 in MP

भोपाल। मध्यप्रदेश में प्री -मानसून की गतिविधियां शुरू हो गई हैं। मौसम विभाग के मुताबिक, दक्षिण-पश्चिम मानसून तेजी से आगे बढ़ रहा है और यह महाराष्ट्र में दस्तक देने के बाद शुक्रवार को पड़ौसी राज्य छत्तीसगढ़ पहुंच गया है। आगामी 15 जून तक मध्यप्रदेश में मानसून दस्तक दे सकता है। इस बार मानसून प्रदेश के दक्षिण-पूरी हिस्से से प्रवेश करेगा। मौसम विभाग के मुताबिक, आगामी 24 घंटों के दौरान प्रदेश के कई जिलों में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश और आकाशीय बिजली गिरने की भी संभावना है।   मध्यप्रदेश में इन दिनों प्री-मानसून की गतिविधियां जारी हैं। भोपाल में भी गुुरुवार को देर रात जोरदार बारिश हुई। इसके अलावा राज्य के कई हिस्सों में तेज हवाएं चलने के साथ पानी बरसा और आकाशीय बिजली गिरने से अनूपपुर जिले में पांच लोगों की मौत हो गई। हालांकि, शुक्रवार को सुबह से राजधानी भोपाल में तेज धूप खिली हुई है, लेकिन आसमान में बादलों की आवाजाही जारी है। शाम तक यहां बारिश होने के आसार हैं। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में भोपाल, इंदौर, होशंगाबाद, उज्जैन संभाग के कई जिलों में तेज हवाओं और गरज-चमक के साथ बारिश की संभावना जताई है।    भोपाल मौसम केन्द्र के वैज्ञानिक यूके सरवटे ने बताया कि मध्यप्रदेश में प्री-मानसूनी गतिविधियों के कारण कहीं बारिश तो कहीं बिजली चमकने की स्थिति बन रही है। मध्यप्रदेश में मानसून के पहुंचने की तय तारीख 15 जून मानी जाती है। पहले इसके पांच दिन देरी से आने का पूर्वानुमान लगाया गया था, लेकिन वर्तमान में बन रहे सिस्टम के कारण दक्षिण-पश्चिम मानसून तय समय पर राज्य में प्रवेश कर जाएगा। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि 15 जून की रात तक यह प्रदेश में प्रवेश करेगा और 16 जून की सुबह तक यह जबलपुर संभाग में पहुंच चुका होगा। अगर सब कुछ ठीक रहा तो मानसून 19 जून तक पूरे राज्य में छा जाएगा।   मौसम विभाग का कहना है कि प्रदेश में अगले 24 घंटे में भोपाल, होशंगाबाद, इंदौर, उज्जैन, रीवा, शहडोल, ग्वालियर एवं चंबल संभाग के जिलों में तथा छतरपुर, सागर दमोह, जबलपुर, नरसिंहपुर, सिवनी, बालाघाट एवं मंडला जिले में गरज चमक के साथ बारिश की संभावना है। वहीं भोपाल, होशंगाबाद, इंदौर, उज्जैन, ग्वालियर एवं चंबल संभाग के जिलों में तथा सागर, डिंडोरी, नरसिंहपुर, सिवनी, बालाघाट एवं मंडला में गरज-चमक के साथ बारिश हो सकती है।  

Dakhal News

Dakhal News 12 June 2020


indore,50 new corona cases, found, 164 deaths

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में अब कोरोना के 50 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 3972 हो गई है। वहीं, अब तक इंदौर में कोरोना से 164 लोगों की मौत हो चुकी है।    इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. एमपी शर्मा ने शुक्रवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा गुरुवार को देर रात 3110 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई, जिनमें 50 रिपोर्ट पॉजिटिव और शेष निगेटिव आई हैं। इन नये 50 मामलों के साथ जिले में अब संक्रमित मरीजों संख्या 3972 हो गई है। वहीं, इंदौर में एक 69 वर्षीय संक्रमित महिला की मौत की भी पुष्टि हुई है। इसके बाद यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 164 हो गई है।   सीएमएचओ डॉ. शर्मा ने बताया कि अब तक इंदौर में 2673 संक्रमित मरीज पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं और अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 1135 है, जिनका उपचार जारी है। इंदौर मध्यप्रदेश का सबसे बड़ा हॉटस्पाट है। यहां सबसे अधिक कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं।

Dakhal News

Dakhal News 12 June 2020


sehdol,Another corona positive case,budhar,district

शहडोल। जिले में प्रवासी श्रमिकों और अन्य लोगों की घर वापसी के बाद शुरू हुआ कोरोना के प्रसार का सिलसिला थमा नहीं है। बुधवार रात को भी जिले में एक और कोरोना पॉजीटिव पाया गया है। रिपोर्ट आने के बाद प्रशासन संक्रमित व्यक्ति के निवास स्थान के आसपास सख्ती बढ़ा दी है।    जिला स्वास्थ्य विभाग द्वारा बुधवार रात को जारी किए स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार जिले के बुढार क्षेत्र के लखेरन टोला में एक और कोरेाना पॉजिटिव केस मिला है। इसे मिलाकर अब जिले में पॉजिटिव केस की संख्या बढ़कर 16 हो गई है। इसमें एक्टिव केस 9 हो गए हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ बीएस बारिया ने बताया कि जिस व्यक्ति को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है, वह हाल ही में दिल्ली से लौटा है। रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसे मेडिकल कॉलेज के  कोरोना वार्ड में भर्ती कराया गया है। साथ ही पूरे क्षेत्र को जोखिम क्षेत्र घोषित कर दिया गया है। अब जिले में जोखिम क्षेत्रों की संख्या भी 10 हो गई है।

Dakhal News

Dakhal News 11 June 2020


raisen, Farmers angry ,over delay,weighing , procurement center ,state highway

रायसेन। रायसेन जिले की उदयपुरा तहसील के अंतर्गत नोनिया बरेली उपार्जन केंद्र पर शुक्रवार को चने की तुलाई नहीं हो पाने के कारण नाराज किसानों ने स्टेट हाईवे पर चक्का जाम कर दिया।     किसानों का आरोप है कि नोनिया बरेली उपार्जन केंद्र पर 10 से 15 दिन पहले वाले किसानों की तौल नहीं हो पा रही है। वहीं दबंग लोगों के चनों की तौल घंटे भर में की जा रही है। इस बात को लेकर सुबह करीब 11:00 बजे के आसपास नाराज किसानों ने स्टेट हाईवे को लगभग आधे घंटे के लिए जाम कर दिया। जाम की खबर लगते ही उदयपुरा तहसीलदार अवधेश यादव, नायब तहसीलदार ललित त्रिपाठी, थाना प्रभारी टी. सप्रे, ए.एस.आई  पाटिल, एस. आई. आर. एस. ठाकुर मौके पर पहुंचे मौके पर पहुंचकर किसानों को समझाइश दी। समझाइश के बाद करीब आधे घंटे बाद चक्का जाम खुला।    वहीं इस पूरे मामले पर प्रबंधक नितिन व्यास का कहना है कि वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराने के बाद भी हमारे केंद्र पर नियमित रूप से परिवहन नहीं किया जा रहा, जिसके कारण जगह की कमी है और इसी वजह से तुलाई नहीं हो पा रही है। साथ ही साथ कांटे और बारदाने की भी कमी है, जिसके कारण तुलाई में देरी हो रही है। मौके पर पहुंचे तहसीलदार अवधेश यादव ने तत्काल वरिष्ठ अधिकारियों से बात करके कांटे, बारदाने तथा परिवहन की व्यवस्था की और तुलाई को सुचारू रूप से चालू करवाया।   

Dakhal News

Dakhal News 11 June 2020


indore, 41 new case ,numbers of Corona ,found again, 3922

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में फिर कोरोना के 41 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 3922 हो गई है। वहीं, दो लोगों की मौत की भी पुष्टि  हुई है। यहां अब तक कोरोना से 163 लोगों की मौत हो चुकी है।   इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. एमपी शर्मा ने गुरुवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा बुधवार को देर रात 3107 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की, जिनमें 41 रिपोर्ट पॉजिटिव और शेष निगेटिव आई हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 3922 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से दो लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। मृतकों में एक 51 वर्षीय महिला और एक 83 वर्षीय पुरुष शामिल है। इसके बाद इंदौर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 163 हो गई है।   सीएमएचओ डॉ. शर्मा ने बताया कि अब तक इंदौर में 2618 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच गए हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 1141 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 11 June 2020


ujjain, Police raids, recovered 12 drums , brewery

उज्जैन। थाना चिमनगंज पुलिस को बुधवार को बड़ी सफलता मिली। पुलिस ने अवैध शराब बनाने की एक भट्टी पर छापा मारकर 12  ड्रम  और शराब बनाने की  भट्टी बरामद की है।    प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार  दोपहर को थाना चिमनगंज मंडी का पुलिस बल थाना क्षेत्र में चोरी के आरोपियों की तलाश में सर्चिंग कर रहा था। सर्चिंग के दौरान पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी । यहां शंकरपुर क्षेत्र में श्री नवकार पार्क कॉलोनी के पीछे भट्टी लगाकर कच्ची शराब बनाई जा रही थी । जब पुलिस मौके पर पहुंची तो भट्टी पर शराब उबल रही थी, साथ ही करीब 8 ड्रमों में शराब बनाने की सामग्री रखी हुई थी और 4 ड्रम खाली रखे थे। हालांकि मौके पर कोई मौजूद नहीं था। बताया जा रहा है कि पुलिस को आता देख शराब बनाने वाले भाग निकले। पुलिस ने क्षेत्र में पूछताछ कर शराब बनाने में शामिल आधा दर्जन महिलाओं को थाने भिजवाया। यहां दबिश देने वाली टीम में सब इंस्पेक्टर आरसी सोलंकी, आरक्षक श्यामवरण, शैलेष, अनिल, चंदन सिंह, महिला आरक्षक प्रभा और पूजा मौजूद रहे। 

Dakhal News

Dakhal News 10 June 2020


bhopal, MP, does not like unlock, 76 died, nine days

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों का रिकवरी रेट 68 फीसदी है। इसके बावजूद यहां नये मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। अब यहां छह जिलों में 97 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद संक्रमित मरीजों की संख्या बढक़र 9944 पहुंच गई है। दरअसल, केन्द्र सरकार द्वारा एक जून से अनलॉक किया गया, जो कि मध्यप्रदेश को रास नहीं आ रहा है। अनलॉक के बाद यहां कोरोना के मरीजों और मृतकों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। जून के शुरुआती नौ दिनों में प्रदेश में 76 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है। अब तक राज्य में कुल 422 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है।   इंदौर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. एमपी शर्मा ने बुधवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा मंगलवार देर रात 2215 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई, जिनमें 51 रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। अब यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 3881 हो गई है। वहीं, इंदौर में कोरोना से दो लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। मृतकों में 56 वर्षीय और 62 वर्षीय दो पुरुष शामिल हैं। इसके बाद इंदौर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 161 हो गई है। इसके अलावा, रतलाम में 24, नीमच में 10 देवास में नौ, उज्जैन में दो और हरदा में एक नया पॉजिटिव मरीज मिला है।   इन 97 नये मामलों के साथ राज्य में संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 9944 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 3881, भोपाल 2053, उज्जैन 743, खंडवा 271, बुरहानपुर 374, जबलपुर 274, खरगौन 205, धार 128, ग्वालियर 211, नीमच 354, मंदसौर 95,  सागर 229, मुरैना 126, देवास 144, रायसेन 72, भिंड 104, बड़वानी 59, होशंगाबाद 37, रतलाम 85, रीवा 36, विदिशा 37, बैतूल 35, सतना 22, छतरपुर 41, डिंडौरी 29, दमोह 26, आगरमालवा 15, झाबुआ 13, अशोकनगर 16, शाजापुर 38, सीधी 17, सिंगरौली 12, दतिया 11, शहडोल 13, बालाघाट 07, श्योपुर 48, शिवपुरी 17, टीकमगढ़ 15, छिंदवाड़ा 18, नरिसंहपुर 17, सीहोर 11, उमरिया 10, पन्ना 21, अलीराजपुर 03, अनूपपुर 24, हरदा 04, राजगढ़ 33, गुना 07, मंडला 05, सिवनी 02 और कटनी के तीन मरीज शामिल हैं।    वहीं, इंदौर में हुई दो मौतों के बाद राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 422 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 161, भोपाल 67, उज्जैन 64, बुरहानपुर 18, खंडवा 17, जबलपुर 11, खरगौन 13, ग्वालियर 02, धार 04, मंदसौर 09, नीमच 05, सागर 12, देवास 09, रायसेन 03, होशंगाबाद 03, सतना 02, आगरमालवा 01, झाबुआ 01, अशोकनगर 01, शाजापुर 01, दतिया 01, छिंदवाड़ा 01, सीहोर 02, उमरिया 01, रतलाम 04, बड़वानी 01 मुरैना 01, राजगढ़ 03, श्योपुर 02, टीमकगढ़ 01 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है। प्रदेश में 6729 मरीज स्वस्थ्य हो चुके हैं और सक्रिय मरीजों की संख्या 3120 है, जिनका उपचार जारी है।   अनलॉक के बाद नौ जून तक 76 मौत   प्रदेश में कोरोना की रोकथाम के लिए सभी प्रयास किये जा रहे हैं, लेकिन अनलॉक के बाद 1 से 9 जून तक यहां कोरोना के 76 मरीज दम तोड़ चुके हैं। इनमें एक जून को 14, दो जून को 06, तीन जून को 07, चार जून को 06, पांच जून को 07, आठ जून को 02 और नौ जून को 06 मौतें हुई हैं।   

Dakhal News

Dakhal News 10 June 2020


bhopal, Pre-monsoon activities, intensified, possibility of rain

भोपाल। मध्य प्रदेश में मौसम पल पल में अपना रंग बदल रहा है। मंगलवार को दिनभर निकली धूप और उमस के बाद रात में जमकर बारिश हुई। हालांकि बुधवार सुबह एक बार फिर तीखी धूप निकलने से मौसम गरम हो गया है। उधर दक्षिण-पश्चिम मानसून लगातार आगे बढ़ रहा है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक मानसून 15 जून के आसपास मप्र में दस्तक दे सकता है। मौसम विज्ञान केंद्र  के मुताबिक वातावरण में मौजूद नमी के कारण प्रदेश के विभिन्न इलाकों में गरज-चमक के साथ बौछारें पडऩे का सिलसिला जारी है।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक उदय सरवटे ने जानकारी देते हुए बताया कि बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बन गया है। साथ ही दक्षिणी गुजरात में एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। बंगाल की खाड़ी में बने सिस्टम के बुधवार को और शक्तिशाली होकर उत्तर-पश्चिम दिशा की तरफ बढऩे के आसार हैं। इसके असर से बुधवार से राजधानी सहित प्रदेश के कई स्थानों पर गरज-चमक के साथ बरसात होने की संभावना है। इसी क्रम में मंगलवार को सुबह 8.30 बजे से शाम 5.30 बजे तक छिंदवाड़ा में 15, रतलाम में 11, जबलपुर में 9.2, दमोह में 2, सागर में 1 मिमी. बारिश हुई। बंगाल की खाड़ी में बना सिस्टम बुधवार को आगे बढ़ सकता है। इसके प्रभाव से बुधवार से भोपाल सहित प्रदेश के कई स्थानों पर मानसून पूर्व की गतिविधियां तेज होने लगेंगी। कई स्थानों पर बौछारें पड़ेंगी।  11-12 जून तक मानसून के मध्य अरब सागर, गोवा, महाराष्ट्र के कुछ हिस्से, कर्नाटक एवं रायलसीमा के कुछ हिस्से, तेलंगाना एवं तटीय आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्से, बंगाल की खाड़ी के कुछ क्षेत्र में पहुंचने की प्रबल संभावना है।  

Dakhal News

Dakhal News 10 June 2020


bhopal, RGPV examinations, from June 15 to July 31

भोपाल। राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय की परीक्षाएँ 15 जून से 31 जुलाई 2020 तक प्रदेश के विभिन्न इंजीनियरिंग और पॉलिटेक्निक महाविद्यालयों में होंगी। कोविड-19 संक्रमण के कारण परीक्षार्थिंयों को उनके नजदीक के परीक्षा केन्द्र में परीक्षा देने की सुविधा दी जा रही है। यह निर्णय राज्यपाल श्री लालजी टंडन की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की उपस्थिति में विगत दिनों हुई बैठक में लिया गया था। परीक्षार्थियों को परीक्षा केन्द्रों पर असुविधा न हो, इसलिए संस्था के शैक्षणिक भवन एवं छात्रावास को कोविड-19 का क्वारेंटाइन सेंटर नहीं बनाने के निर्देश कलेक्टर्स को दिये गये हैं। यह निर्देश भी दिये गये हैं कि यदि पूर्व में किसी केन्द्र के भवन में क्वारेंटाइन सेंटर बनाया गया हो तो उसे किसी अन्य सुसंगत भवन में स्थानांतरित कर परीक्षा केन्द्र को विधिवत सैनिटाईज करवाने की कार्यवाही सुनिश्चित करें। समस्त कलेक्टर एवं समस्त पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिए गए हैं कि वैश्विक महामारी कोविड-19 संक्रमण के कारण उत्पन्न परिस्थितियों के दृष्टिगत परीक्षार्थियों को परीक्षा केन्द्रों पर पहुंचने में किसी प्रकार की असुविधा उत्पन्न न हो और विद्यार्थी किसी कारण परीक्षा देने से वंचित न हो जाएं, इसलिये परीक्षार्थियों को विश्वविद्यालय द्वारा जारी प्रवेश-पत्र को ही आवागमन के लिये मान्य किया जावे। परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों को स्थानीय शासकीय एवं निजी छात्रावास/होटल में रहने/रूकने में कोई परेशानी न हो। संचालक तकनीकी शिक्षा को निर्देश दिए गए हैं कि इंजीनियरिंग/पॉलीटेक्निक महाविद्यालयों में परीक्षा संबंधी कार्यों को सुचारू रूप से संचालित करने के लिये शैक्षणिक/गैर शैक्षणिक स्टॉफ की उपस्थिति सुनिश्चित करें। साथ ही कोविड-19 महामारी को दृष्टिगत रखते हुए सामान्य प्रशासन विभाग एवं गृह विभाग द्वारा जारी समस्त दिशा-निर्देशों का पालन करना भी सुनिश्चित करें। कोविड-19 के कारण अथवा अन्य अपरिहार्य कारणवश आठवें सेमेस्टर की सैद्धांतिक परीक्षा से वंचित छात्र-छात्राओं के लिये विश्वविद्यालय द्वारा द्वितीय चरण में 27 जुलाई 2020 से परीक्षायें आयोजित की जाएंगी।

Dakhal News

Dakhal News 9 June 2020


malwa, nimad, Corona patients, growing continuously, zone

खरगौन/बुरहानपुर। मध्यप्रदेश के मालवा-निमाड़ अंचल में कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। अब यहां निमाड़ के खरगौन जिले में सात और बुरहानपुर में 15 नये संक्रमित मरीज मिले हैं, जबकि मालवा क्षेत्र के उज्जैन में छह, देवास में चार और नीमच में तीन कोरोना के नये मामले सामने आए हैं।    बुरहानपुर सीएमएचओ कार्यालय से मिली जानाकरी के मुताबिक, जिले में सोमवार को देर रात आई रिपोर्ट में 15 नये संक्रमित मरीज मिले हैं। इसके बाद जिले में संक्रमित मरीजों की संख्या बढक़र 374 हो गई है, जबकि यहां कोरोना से अब तक 19 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि, राहत की बात यह है कि यहां 273 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं। अब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 82 है और उनका उपचार जारी है।   इसी प्रकार खरगौन में सोमवार को देर रात मिली रिपोर्ट में सात नए पॉजिटिव सामने आए हैं। यहां अब संक्रमित मरीजों की संख्या 205 हो गई है, जबकि जिले में अब तक कोरोना से 13 लोगों की मौत हो चुकी है। जिले में अब तक 128 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं। यहां अब सक्रिय मरीजों की संख्या 64 है, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।   वहीं, उज्जैन सीएमएचओ कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक, सोमवार को देर रात आई रिपोर्ट में कोरोना के 6 नये मामले सामने आए हैं। अब यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 743 हो गई है, जबकि जिले में कोरोना से अब तक 64 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि, जिले में 602 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और स्वस्थ होकर अपने घर लौट गए हैं। अब उज्जैन में सक्रिय मरीजों की संख्या 77 है, जिनका उपचार जारी है।   इसी तरह देवास में मंगलवार को सुबह कोरोना के चार नये मरीज सामने आए हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की संख्या 132 हो गई है, जिनमें से नौ की मौत हो चुकी है। देवास में अब तक 76 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर पहुंच चुके हैं। अब यहां सक्रिय मरीज 47 है। इसी तरह नीमच में भी तीन नए मामले सामने आए हैं। यहां अब संक्रमित मरीजों की संख्या 346 हो गई है, जिनमें से सात लोगों की मौत हो चुकी है। जिले में अब तक 198 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।   

Dakhal News

Dakhal News 9 June 2020


bhopal, Board examinations, MP, remaining papers ,started ,after thermal screening

भोपाल। एमपी बोर्ड के बचे हुए पेपरों की परीक्षाएं मंगलवार सुबह से प्रदेश में शुरू हुंईं। परीक्षा 16 जून तक चलेगी। इस परीक्षा में शामिल हो रहे प्रदेशभर के करीब साढ़े 8 लाख छात्रों के लिए 4 हजार केंद्र बनाए गए हैं। राजधानी भोपाल में भी इस परीक्षा के लिए 97 केंद्रं बनाए गए हैं। मंगलवार को छात्र-छात्राएं परीक्षाएं शुरू होने के एक से डेढ़ घंटे पहले ही परीक्षा केंद्र पर पहुंच गए।    मंगलवार सुबह विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा देने आए छात्र-छात्राओं के चेहरे पर मास्क और हाथ में सैनिटाइजर की बोतल नजर आई। इस दौरान कुछ छात्र केंद्र में रोल नंबर नहीं मिलने के कारण परेशान भी होते दिखे। छात्र-छात्राओं को थर्मल स्क्रीनिंग करने के बाद ही केंद्र में प्रवेश दिया गया। परीक्षार्थियों को पहले एक लाइन में खड़ा किया गया, फिर उनकी स्क्रीनिंग की गई। कुछ छात्र पेपर देने बैग लेकर पहुंचे, तो स्कूल के अलग कमरे में बैग रखवा दिए गए। इसके साथ छात्रों को अगले पेपर में अपने साथ बैग नहीं लगाने की सलाह दी गई। बच्चों को सिर्फ सैनिटाइजर, ग्लब्ज, मास्क, पानी की बोतल और परीक्षा के लिए पेन आदि के रखने की ही अनुमति है।    परीक्षा के समय से काफी पहले आए छात्र-छात्राओं की स्कूल के गेट पर ही लाइन लगवाई गई। उनके हाथ सैनिटाइज कराने के बाद उनकी थर्मल स्क्रीनिंग की गई। शरीर का तापमान सामन्य आने के बाद ही उन्हें प्रवेश दिया। कोरोना लक्षण वाले छात्रों को सामान्य बच्चों से दूर दूसरे कमरों में बैठने की व्यवस्था भी की गई है। सोशल डिस्टेंसिंग समेत अन्य बातों का पालन करने के लिए सुरक्षा गार्ड और शिक्षकों द्वारा लगातार बच्चों को बताया गया।  वर्तमान में कोरोना पॉजिटिव छात्रों से लेकर क्वारैंटाइन में रह रहे और दिव्यांग छात्र अगर परीक्षा में शामिल नहीं हो पाते हैं, तो उनके लिए मंडल द्वारा विशेष परीक्षा आयोजित की जाएगी। अगर वह विशेष परीक्षा में शामिल होने के बाद किसी विषय में फेल हो जाते हैं, तो मंडल की हायर सेकेंडरी पूरक परीक्षा 2020 में सम्मिलित हो सकेंगे। कोरोना पॉजिटिव और क्वारैंटाइन छात्र को विशेष परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए स्वयं और परिवार के सदस्य का डिस्चार्ज सर्टिफिकेट अथवा क्वारैंटाइन सर्टिफिकेट देना होगा।    एक घंटे पहले पहुंचना अनिवार्य छात्रों को पेपर शुरू होने से एक घंटे पहले परीक्षा केंद्र पर पहुंचना अनिवार्य है। परीक्षा केंद्र के अंदर जाने से पहले सभी की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। पहली शिफ्ट में पेपर देने वाले छात्रों को सुबह 8 बजे और दूसरी शिफ्ट में परीक्षा देने वाले छात्रों को दोपहर 1 बजे परीक्षा केंद्र पर पहुंचना होगा। परीक्षा केंद्र पर पहुंचने से लेकर परीक्षा देने के दौरान सभी छात्रों को अपने-अपने चेहरे को कवर रखना होगा और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा।

Dakhal News

Dakhal News 9 June 2020


indore,12 new infected found, 11 Khargone, Neemuch.

इंदौर। शिथिल होते जा रहे लॉकडाउन के बीच प्रदेश में कोरोना का कहर जारी है। कोरोना संक्रमण के नए मामले लगातार सामने आ रहे हैं। बीते 24 घंटों में प्रदेश के नीमच जिले में 11 तो खरगोन जिले में 12 नए प्रकरण सामने आए हैं। बुरहानपुर जिले में भी 09  नए संक्रमित पाए गए हैं।    नीमच में 11 नए पॉजिटिव मिलेमंगलवार देर रात मिली जांच रिपोर्ट ने जिले के प्रशासन और स्वास्थ्य महकमे की चिंताएं बढ़ा दी हैं। इसके अनुसार जिले में 11 नए कोरोना पॉजीटिव पाए गए हैं। पॉजीटिव मरीजों में से 10 जावद के व 1 जीरन का निवासी है। नए मामलों को मिलाकर अब जिले में संक्रमितों की संख्या 245 हो गई है। इनमें से 83 लोग स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं, जबकि 6 मरीजों की मौत भी हो चुकी है।   बुरहानपुर में 9 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलेबुरहानपुर जिले में लगातार नए मामले सामने आ रहे हैं। मंगलवार देर रात आई रिपोर्ट में 9 कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इन्हें मिलाकर जिले में संक्रमितों की संख्या 315 हो गई है। इनमें से 247 मरीज ठीक हुए और 16 मरीजों की मौत हो चुकी है। जिले में एक्टिव प्रकरण 52 हैं, जिनका इलाज चल रहा है।    खरगोन में कोरोना के 12 नए केसखरगोन जिले में बुधवार सुबह आई रिपोर्ट में 12 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले, जबकि 55 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई हैं। संक्रमितों में बिस्टान रोड की 4 युवतियां, 2 युवक, गांधी नगर का 1 व कुंदा नगर का 1 व्यक्ति शामिल है। इनके अलावा गोगावां की 3 महिलाएं व सनावद की 1 महिला भी पॉजिटिव मिली है। जिले में अब कुल 169 संक्रमित मरीज हो गए हैं। इनमें से 106 मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। 11 की मौत हो चुकी है। एक्टिव केस 52 हैं, जिनका इलाज चल रहा है। 

Dakhal News

Dakhal News 3 June 2020


bhopal, Cyclone nature ,impacts Madhya Pradesh, warning of heavy rain

भोपाल। मध्‍य प्रदेश में कई जिलों में बुधवार को सीधे तौर पर चक्रवात निसर्ग का असर देखने को मिला। इसके कारण से राज्‍य में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश के आसार बने हैं। मौसम विज्ञानियों ने बुधवार-गुरुवार को अधिकांश स्थानों पर तेज हवा के साथ भारी वर्षा की चेतावनी जारी की है।    दूसरी ओर मंगलवार दिन में ही इस चक्रवात के कारण से प्रदेश के कई जिलों में हल्‍की एवं मध्‍यम बारिश हुई है। वर्षा का यह दौर अभी भी कई जिलों में बना हुआ है। प्रदेश में सबसे अधिक सतना, मंडला, टीकमगढ़ और सिवनी में बारिश हो चुकी है। सतना में 49.3, मंडला में 40, टीकमगढ़ में 27 और सिवनी में 15.2   मिमी. बारिश हुई है।इसके अलावा इंदौर में 8.4, रतलाम में 8, बैतूल में 7.2, खंडवा में 5, धार 4.8, खजुराहो में 3.8,  जबलपुर में 3 मिमी. बारिश हुई है। वहीं, ग्वालियर में 3.6 मिमी. बारिश होने के साथ ही संभाग के कई जिलों में हल्‍की बौछारें पड़ी हैं। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार इस बार अम्फान तूफान की वजह से मानसून का असर जल्दी दिखाई दे रहा है। एक जून को केरल पहुंचने के साथ प्रदेश में प्री-मानसून सक्रिय हो गया है। इसका मुख्‍य कारण अरब सागर से नमी और अफगानिस्तान से पश्चिमी विक्षोभ का प्रदेश में सक्रिय होना बताया जा रहा है । मौसम विज्ञान केंद्र के वरिष्‍ठ वैज्ञानिकों का कहना है कि इस बार पिछले साल जैसी बारिश नहीं होगी। 30 सितंबर आने तक मानसून विदा हो जाएगा। लेकिन इसके पूर्व तक 98% बारिश पूरी होने की संभावना बनी हुई है। मौसम विज्ञान केंद्र की वरिष्ठ मौसम विज्ञानी ममता यादव ने बताया कि अरब सागर में बना "निसर्ग" तूफान उत्तर दिशा की तरफ बढ़ रहा है। मध्‍य प्रदेश में इसका प्रभाव सोमवार रात से ही दिखने लगा था । तापमान में गिरावट दर्ज की गई। कई स्थानों पर बारिश भी हुई। वहीं, मौसम वैज्ञानिक अजय कुमार शुक्ला के मुताबिक अरब सागर से उठा डीप डिप्रेशन मंगलवार को चक्रवाती तूफान में बदल गया है। इस तूफान का नाम निसर्ग है जो महाराष्ट्र और गुजरात के तटीय इलाकों की ओर बढ़ रहा है। बुधवार-गुरुवार को तूफान के असर से भोपाल,  इंदौर, रीवा, शहडोल, होशंगाबाद,सागर, उज्जैन, जबलपुर, ग्वालियर और चंबल संभाग में बारिश का दौर शुरू हो रहा है। इस दौरान कहीं-कहीं भारी बारिश भी हो सकती है। उल्‍लेखनीय है कि मौसम विज्ञानियों में 22 जून के करीब प्रदेश में मानसून के पूरी तरह से सक्रि‍य होने की जानकारी दी है, लेकिन इससे पहले ही प्रदेश के सभी जिलों में बारिश का दौर कहीं अधिक तो कहीं कम शुरू हो चुका है ।   

Dakhal News

Dakhal News 3 June 2020


bhopal, Death toll, corona, MP, reached 367,  infected reached 8543

भोपाल। मध्य प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 123 नये मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की मौत हुई है। इसके बाद राज्य में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 8543 हो गई है और अब तक प्रदेश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 367 हो गई है।    इंदौर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. एमपी शर्मा ने बुधवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा मंगलवार देर रात 1057 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की, जिनमें 27 रिपोर्ट पॉजिटिव आई हैं। इसके बाद जिले में कोरोना मरीजों की संख्या 3597 हो गई है। इंदौर में कोरोना से तीन लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 141 हो गई है।   भोपाल सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी के अनुसार, राजधानी में बुधवार सुबह प्राप्त रिपोर्ट में कोरोना के 61 नये मामले सामने आए हैं। इसके अलावा खरगौन में 12, नीमच में 11, बुरहानपुर में नौ, उज्जैन में दो और देवास में एक नया पॉजिटिव मरीज मिला है। इन नये 123 मामलों के साथ प्रदेश में अब संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 8543 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 3597, भोपाल 1592, उज्जैन 694, खंडवा 251, बुरहानपुर 313, जबलपुर 251, खरगौन 168, धार 125, ग्वालियर 139, नीमच 241, मंदसौर 92,  सागर 189, मुरैना 93, देवास 104, रायसेन 68,  भिंड 57, बड़वानी 53, होशंगाबाद 37, रतलाम 38, रीवा 35, विदिशा 29, बैतूल 28, सतना 21, छतरपुर 29, डिंडौरी 21, दमोह 26, आगरमालवा 13, झाबुआ 13, अशोकनगर 12, शाजापुर 09, सीधी 17, सिंगरौली 11, दतिया 11, शहडोल 12, बालाघाट 07, श्योपुर 14, शिवपुरी 11, टीकमगढ़ 11, छिंदवाड़ा 14, नरिसंहपुर 12, सीहोर 11, उमरिया 07, पन्ना 20, अलीराजपुर 03, अनूपपुर 18, हरदा 03, राजगढ़ 13, गुना 03, मंडला 04, सिवनी 02 और कटनी का एक मरीज शामिल हैं।   इंदौर में तीन लोगों की मौत के बाद अब राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 367 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 141, भोपाल 60, उज्जैन 58, बुरहानपुर 16, खंडवा 13, जबलपुर 10, खरगौन 11, ग्वालियर 02, धार 03, मंदसौर 08, नीमच 04, सागर 09, देवास 09, रायसेन 03, होशंगाबाद 03, सतना 02, आगरमालवा 01, झाबुआ 01, अशोकनगर 01, शाजापुर 01, दतिया 01, छिंदवाड़ा 01, सीहोर 01, उमरिया 01, रतलाम 02, बड़वानी 01 मुरैना 01, राजगढ़ 01, श्योपुर 01 और मंडला का एक व्यक्ति शामिल है। राहत की खबर यह है कि राज्य में अबतक 5221 मरीज कोरोना से जंग जीतकर अपने घर जा चुके हैं। अब राज्य में कोरोना के एक्टिव प्रकरण 2958 हैं।

Dakhal News

Dakhal News 3 June 2020


indore, Lockdown 5 ,start, revenue officers ,police , municipal workers

इंदौर। कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा है कि सोमवार से जिले में लॉकडाउन-5 शुरू हो गया है। सात दिन बाद इसकी पुन: समीक्षा की जायेगी। शहर में राजस्व अधिकारी, पुलिस और नगर निगम के कर्मचारी लोगों ने लॉकडाउन के नियमों का पालन कराएंगे। उन्होंने जनता से अपील की कि वे इस लॉकडाउन के दौरान शांति और धैर्य बनाये रखें तथा लॉकडाउन के नियमों का कड़ाई से पालन करें।     उन्होंने जनता से कहा कि आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई और काम की छूट दी जा रही है, मगर कुछ प्रतिबंध भी लगाये जा रहे हैं। सभी को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना  है तथा मॉस्क, ग्लब्स और सेनेटाइजेशन का विशेष ध्यान रखना है। उन्होंने कहा कि आज एक जून से जिले में सभी बैंक निर्धारित समय पर खुलेंगे, मगर वहां भीड़भाड़ नहीं होना चाहिये। सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन होना चाहिये। जिले में रात को 9 बजे से सुबह 5 बजे तक जिले में कर्फ्यू लागू रहेगा।   दरअसल, कलेक्टर मनीष सिंह ने रविवार की रात नेहरू स्टेडियम में व्यापारियों, वरिष्ठ नागरिकों और अधिकारियों की बैठक लेकर लॉकडाउन-5 को लेकर चर्चा की। इस दौरान उन्होंने कहा कि इंदौर जिले में आज एक जून से से लॉकडाउन-5 शुरू किया जा रहा है। जनता और जनप्रतिनिधियों की मांग पर जिला प्रशासन द्वारा दूध डेयरी,(घर-घर सप्लाई) मेडिकल शॉप  और जरूरी उद्योग खोलने की छूट दी जा रही है, मगर दुकानों पर ग्राहक नहीं होना चाहिये और दुकानों का आधा शटर बंद रहना  चाहिये और किसी भी ग्राहक को खेरची माल नहीं बेचा जायेगा। आज से स्कूल और कॉलेज  में एक-तिहाई स्टॉफ के साथ कार्यालयीन गतिविधि संचालित करने की छूट दी गयी है। कक्षाएं स्थगित रहेंगी। खिलाड़ी खेल मैदान में आज से खेल सकेंगे, मगर वहाँ पर दर्शकों की भीड़ इकट्ठा नहीं होना चाहिये। जिला प्रशासन द्वारा सुबह 5 बजे से 8 बजे तक मॉर्निंग वाकर्स को मॉनिंग वॉक के लिये छूट दी गयी है। इंदौर नगर के जोन-दो में मोबाइल शॉप और मोबाइल रिपेरिंग शॉप चालू रहेंगी,जिससे लोग मोबाइल और लैपटॉप सुधरवा सकें।       उन्होंने कहा कि सब्जी और फल की दुकानें बंद रहेंगी, मगर ठेले और मेटाडोर के जरिये दुकानदार घर-घर सब्जी सप्लाई कर सकेंगे। जिले में निर्माणाधीन निर्माण कार्य भी कल से शुरू किये जाने की अनुमति दी गयी है, मगर इंदौर नगर के मध्य क्षेत्र में किसी तरह का निर्माण कार्य फिलहाल शुरू नहीं किया जायेगा। किसी भी प्रकार का शासकीय या अशासकीय नया निर्माण कार्य शुरू नहीं किया जायेगा। बिना अनुमति के दुकान खोलने पर संबंधित क्षेत्र के एसडीएम द्वारा दुकान का लायसेंस निरस्त कर दिया जायेगा और दुकान सील कर दी जायेगी। कन्टेनमेंट एरिया में सारी गतिविधियां पूरी तरह प्रतिबंधित रहेंगी। दुकान, मॉल, शॉपिंग सेंटर, मैरिज गार्डन, शादी का जुलूस जैसी गतिविधियाँ पूरी तरह प्रतिबंधित रहेंगी। बस सेवा, ऑटो, टेम्पो आदि प्रतिबंधित रहेंगे।     उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन, नगर निगम और पुलिस के माध्यम से लॉकडाउन-5 का कड़ाई से पालन कराया जायेगा। नगर निगम के जोनल ऑफिसर भी पुलिस और राजस्व अधिकारियों के साथ दौरा करेंगे। शुरू के 5 दिन तक जनता को समझाइश देकर सोशल डिस्टेंसिंग, स्वच्छता और मॉस्क लगाने तथा सेनेटाइजर लगाने, हाथ साफ रखने और सार्वजनिक स्थनों पर न थूकने की हिदायत दी जायेगी। पाँच दिन  बाद से अर्थदण्ड लगाया जायेगा।     डीआईजी हरिनारायण चारी मिश्र ने कहा कि इंदौर जिले में कोरोना वायरस संक्रमण रोकने के लिये लॉकडाउन बढ़ाना जिला प्रशासन की मजबूरी है। इस बीमारी को नियंत्रित करने के लिये जनजागरूकता और जनसहयोग जरूरी है। लॉकडाउन को राजस्व अधिकारी, पुलिस अधिकारी और नगर निगम के अधिकारी मिलकर सामूहिक दौरा करेंगे और नियमों का कड़ाई से पालन करायेंगे। पुलिसकर्मी जनता पर कड़ी नजर रखेगी और कहीं भी भीड़ इकट्ठा नहीं होने देंगे। आज से बैंक और एटीएम में भीड़ बढऩे की संभावना है। पुलिस को इन क्षेत्रों में विशेष निगरानी रखने की आवश्यकता है।

Dakhal News

Dakhal News 1 June 2020


bhopal,Changes, weather patterns , Madhya Pradesh, Bhopal and Indore

भोपाल। मध्य प्रदेश में मौसम का मिजाज बदल गया है। नौतपा में भी लू और गर्मी का कोई असर नहीं दिख रहा है। नौतपा के आठवें दिन सोमवार को राजधानी भोपाल के आसमान में सुबह से बादल छाए हुए है। मौसम विभाग के अनुसार अरब सागर में बने ऊपरी हवा के चक्रवात के कारण प्रदेश में मानसून पूर्व की गतिविधियां तेज हो गई हैं। इस सिस्टम के कम दबाव के क्षेत्र में तब्दील होकर आगे बढऩे के संकेत मिले हैं। इससे सोमवार से प्रदेश के कई स्थानों पर अच्छी बरसात होने की संभावना है। बारिश को सिलसिला रुक-रुककर 3-4 दिन तक चलने का अनुमान है।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला के मुताबिक बादल छाने और गरज-चमक के साथ कुछ स्थानों पर बौछारें पडऩे के बाद अधिकतर जिलों में दिन के तापमान में गिरावट होने लगी है। शनिवार को सबसे अधिक तापमान 44.5 डिग्री सेल्सियस खरगोन में दर्ज किया गया। अजय शुक्ला ने बताया कि वर्तमान में उत्तर-पूर्वी राजस्थान से उत्तरी मप्र होकर छत्तीसगढ़ तक एक ट्रफ बना हुआ है। अरब सागर में एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। इन दो सिस्टम के कारण प्रदेश में कई स्थानों पर गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ रही हैं।    अरब सागर में बना चक्रवात कम दबाव का क्षेत्र बनकर सोमवार से आगे बढ़ेगा। उसके प्रभाव से 1 जून से भोपाल, इंदौर, उज्जैन, होशंगाबाद संभाग में बरसात का सिलसिला शुरू होने की संभावना है। बारिश का क्रम रुक-रुक कर 3-4 दिन तक चल सकता है।   मप्र के इन जिलों में हो सकती है बारिश प्रदेश के रीवा, ग्वालियर-चम्बल संभाग के जिलों में गरज-चमक के साथ हल्की बौछारें पड़ने के आसार हैं। उमरिया, डिंडौरी, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, सिवनी, मंडला, सागर, छतरपुर, रायसेन, बैतूल, नीमच और मंदसौर जिलों में धूल भरी आंधी चलने के साथ बारिश की संभावना है।

Dakhal News

Dakhal News 1 June 2020


bhopal,No pass needed for traffic

भोपाल। अपर मुख्य सचिव एवं प्रभारी स्टेट कंट्रोल रूम आई.सी.पी. केशरी ने जानकारी दी है‍कि मध्यप्रदेश से बाहर जाने और अन्य प्रदेश से मध्यप्रदेश आने के लिए किसी पास की जरूरत नहीं होगी। इसी तरह प्रदेश के एक जिले से दूसरे जिले में जाने के लिए भी किसी प्रकार के पास और अनुमति की आवश्यक नहीं होगी। श्री केशरी ने कहा है कि किसी व्यक्ति को अपनी सुविधा के लिए ई-पास की आवश्यकता महसूस होती है तो वह www.mapit.gov.in/COVID-19 में सम्पूर्ण विवरण के साथ जानकारी भर सकता है। जानकारी भरने के तुरंत बाद स्वत: ई-पास जारी हो जायेगा।

Dakhal News

Dakhal News 1 June 2020


datia, Havan materials ,Ayurvedic medicine, Gayatri Mantra ,Mahamantujay

दतिया। वैदिककाल से यह सर्वविदित है कि यज्ञ से वातावरण में व्याप्त सभी तरह के हानिकारक बैक्टीरिया वायरस और प्रदूषण समाप्त हो जाता है। वातावरण की शुद्धि के लिए अखिल भारतीय गायत्री परिवार द्वारा लोगों को कोरोना से बचाव का संदेश देने के साथ-साथ रविवार को घर-घर गायत्री महायज्ञ सम्पन्न हुआ। लोगों ने विधि विधान के साथ माँ गायत्री के चित्र की पूजा, अर्चना की व हवन सामाग्री द्वारा परिवार के साथ यज्ञ किया। गायत्री परिवार द्वारा पूरे विश्व सहित जिले के साधकों ने रविवार को 9 से 12 बजे तक यज्ञ सम्पन्न कर आरती की व प्रसाद वितरण किया।   जिले में भी गायत्री परिजन विगत कई दिनों से घर-घर यज्ञ की तैयारियों में जुटा हुआ था। इसी के तहत रविवार को साधकों ने प्रातः 9 से 12 बजे के बीच गायत्री मंत्र और महामृत्युजय मंत्र के जाप के साथ आयुर्वेदिक औषधि युक्त हवन सामाग्री की आहुतियां डाली। घर-घर गायत्री यज्ञ उपासना का मुख्य उदैश्य मानव कल्याण है। वैद, पुराण और आयुर्वेदिक ग्रंथो में स्वास्थ्य रक्षा के लिए अनेक मंत्रों व उपायो का उल्लेख है। वैदिककाल के ये मंत्र यज्ञ और उपाय आज भी अचूक है। गायत्री मंत्र का उच्चारण वातावरण को शुद्ध और शांति अध्यात्मिक बनाता है। 

Dakhal News

Dakhal News 31 May 2020


sagar, Eight including, female doctors , 12 new corona found, Anuppur infected

सागर। मध्यप्रदेश के ग्रामीण अंचलों में भी कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ रही है। अब सागर जिले में जिला अस्पताल में पदस्थ महिला डॉक्टर समेत आठ नये कोरोना संक्रमित मिले हैं, जबकि अनूपपुर जिले में भी कोरोना के 12 नये मामले सामने आए हैं।   सागर स्थित बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. जीएस पटेल ने रविवार को बताया कि शनिवार देर रात आई रिपोर्ट में जिला चिकित्सालय में पदस्थ छत्तीस वर्षीय महिला डॉक्टर और स्टाफ के ही दो अन्य युवक भी पॉजिटिव पाए गए हैं। ये तीनों मोतीनगर थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं। इसके अलावा जिले के गढ़ाकोटा निवासी एक बुजुर्ग और तीन अन्य युवकों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। इसके साथ ही अब जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 172 हो गई है, जबकि यहां अब तक कोरोना से सात लोगों की मौत हो चुकी है।   वहीं, अनूपपुर जिले में भी 12 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। यह सभी मुम्बई से आए थे और उन्हें पहले से ही क्वारेंटाइन सेंटर में रखा गया था। दो दिन पहले मुम्बई से आए दो युवकों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी। इसके बाद उनके सम्पर्क में आने वाले सभी लोगों के सेम्पल लेकर जांच के लिए भेजे गए थे। जबलपुर आईसीएएमआर से शनिवार को देर रात 38 रिपोर्ट प्राप्त हुई, जिनमें 12 रिपोर्ट पॉजिटिव और शेष निगेटिव आई हैं। नये सभी 12 मरीजों को क्वारेंटाइन सेंटर से जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट कर उनका उपचार शुरू कर दिया गया है। जिले में अब कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 17 हो गई है। इनमें से अब तक तीन मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं।   

Dakhal News

Dakhal News 31 May 2020


bhopal, Weather update, Madhya Pradesh,softened, now rain, expected

भोपाल। मध्य प्रदेश के कई जिलों में लू का प्रकोप जारी था, परंतु अब वर्षा की गतिविधियां शुरू होने के कारण तापमान में गिरावट शुरू हो गई है तथा लू का प्रकोप भी कम होने लगा है। मध्य प्रदेश में रविवार से बारिश बढ़ेगी तथा 1 जून से 4 जून के बीच मध्य प्रदेश के कई जिलों में विशेषकर पश्चिमी और दक्षिण पश्चिमी जिलों में तेज बारिश तथा तेज हवाएं चलने की संभावना है जिससे तापमान में भारी गिरावट होगी और लू का प्रकोप लगभग समाप्त हो जाएगा। वहीं जून के पहले सप्ताह में मध्य प्रदेश के कई जिलों में अच्छी बारिश जारी रहने के आसार हैं।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने बताया कि नौतपा में दिनों दिन गर्मी के तेवर नरम पड़ते जा रहे हैं। छह दिन में अधिकतम तापमान में 3 डिग्री तक की गिरावट दर्ज की जा चुकी है। मौसम विज्ञानियों ने रविवार को गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी होने की संभावना जताई है। साथ ही सोमवार से तेज बौछारें पडऩे के भी आसार हैं। मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक नौतपा के छठवें दिन शनिवार को दिन का अधिकतम तापमान 41.5 डिग्री दर्ज किया गया। जो सामान्य से 1 डिग्री अधिक रहा। न्यूनतम तापमान 29 डिग्री रिकार्ड किया गया। यह सामान्य से 2 डिग्री अधिक है। नौतपा के पहले दिन अधिकतम तापमान 44.5 डिग्री दर्ज हुआ था।   इसके बाद से तापमान में गिरावट का सिलसिला शुरू हो गया था। राजस्थान से उत्तरी मप्र से होकर छत्तीसगढ़ तक एक ट्रफ बना हुआ है। अरब सागर में एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। साथ ही औसत लगभग 20 किमी. प्रति घंटा की रफ्तार से दक्षिण-पश्चिमी हवाएं चल रही हैं। इस वजह से प्रदेश में बड़े पैमाने पर नमी आ रही है। इस वजह से रविवार को शहर में गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी हो सकती है। सोमवार-मंगलवार को राजधानी में तेज बौछारें पडऩे की संभावना है।   शनिवार को ऐसी रही पारे की चाल   समय - तापमान सुबह- 5:30 - 29.4 सुबह - 8:30 - 32.2 सुबह - 11:30 - 36.8 दोपहर - 2:30 - 40.0 शाम - 5:30 - 40.0 रात - 8:30 - 35.4  

Dakhal News

Dakhal News 31 May 2020


badwani, farmer shot himself, attempting suicide, condition critical

बड़वानी। बड़वानी जिला मुख्यालय क्षेत्र में शुक्रवार को सुबह एक किसान को खुद को गोली मारकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। गंभीर हालत में परिजन उसे जिला अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां आईसीयू में प्राथमिक उपचार के बाद इंदौर रैफर कर दिया गया है। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले को जांच में लिया है।   जानकारी के मुताबिक, नजदीकी गांव सेंगाव निवासी किसान संतोष गेहलोत ने शुक्रवार सुबह बड़वानी के वार्ड नम्बर-10 स्थित अपने मकान में अज्ञात कारणों के चलते अपने सिर पर गोली मार ली। परिजन आनन-फानन में किसान को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे, जहां उसे आईसीयू में भर्ती कर उपचार शुरू किया गया, लेकिन किसान की गंभीर हालत देखते हुए उसे इंदौर रैफर किया गया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस के मुताबिक, पूछताछ के बाद ही पता चला पाएगा कि किसान ने यह कदम क्यों उठाया।

Dakhal News

Dakhal News 29 May 2020


bhopal, Struggle over meeting ,two more corona positives, Raj Bhavan

भोपाल। कोरोना के लगातार बढ़ रहे मामलों के बीच राजभवन में शुक्रवार को फिर से दो नए पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इसके बाद राजभवन के कर्मचारी निवास में हड़कंप मच गया है। इन दो पॉजीटिव को मिलाकर अब तक कर्मचारी निवास में रहने वाले 9 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इसे देखते हुए राजभवन के कर्मचारी निवास कैंपस को कंटेनमेंट घोषित कर आसपास के 50 घरों की सैंपलिंग और हर दिन स्क्रीनिंग की जा रही है।   राजभवन में कोरोना के 07 पॉजीटिव पाए जाने के बाद उनके संपर्क में आए लोगों के सैंपल लिए गए थे। शुक्रवार सुबह आई रिपोर्ट के अनुसार इनमें से दो और लोग कोरोना पॉजीटिव पाए गए हैं। इसके बाद राजभवन के कर्मचारी आवास क्षेत्र में सख्ती बढ़ा दी गई है। मिली जानकारी के मुताबिक राज्यपाल के निजी स्टाफ को "कोर जोन" में रखा गया है। उन्हें उससे बाहर जाने की इजाजत नहीं होगी। इसमें उनका रसोईया, सफाई व अन्य कर्मचारी भी शामिल हैं। इसके अलावा राजभवन के जो कर्मचारी व उनके स्वजन कोरोना पॉजिटिव हैं, उनकी कॉलोनी और क्षेत्र को प्रतिबंधित कर दिया गया है। इनमें से एक कर्मचारी राज्यपाल के कक्ष में भी गया था, जिससे पूरे भवन को नए सिरे से सैनिटाइज किया गया। निजी स्टाफ में तैनात कर्मचारियों की जमावट भी नए सिरे की गई है।   राजभवन सचिवालय में और सख्ती के साथ कोरोना संक्रमण से बचाव की गाइडलाइन का पालन कराया जा रहा है। मुलाकात के लिए आने वालों की संख्या भी बहुत सीमित कर दी गई है। राज्यपाल से मिलने आने वाले अति विशिष्ट अतिथियों को भी थर्मल स्कैनर से परीक्षण, सैनिटाइजेशन और समुचित शारीरिक दूरी का पालन करने को कहा गया है।  

Dakhal News

Dakhal News 29 May 2020


indore, 84 new cases, corona , 126 deaths

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। यहां अब 84 नये मामले सामने आए हैं, जबकि चार लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 3344 हो गई है। वहीं, इंदौर में अब तक कोरोना से 126 लोगों की मौत हो चुकी है।   इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने शुक्रवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा गुरुवार देर रात 1073 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई, जिसमें 964 रिपोर्ट निगेटिव और 84 रिपोर्ट पॉजिटिव आई हैं।    इन नये मामलों के साथ अब जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 3344 हो गई है। वहीं, इंदौर में चार लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। इनमें एक 62 वर्षीय, 65 वर्षीय और 84 वर्षीय पुरुष तथा एक 80 वर्षीय बुजुर्ग महिला शामिल है। इन चार मौतों के बाद यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 126 हो गई है।   सीएमएचओ डॉ. जडिय़ा के मुताबिक, इंदौर में अब तक 1673 संक्रमित मरीज कोरोना को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं और उन्हें अस्पतालों से डिस्चार्ज कर अपने घर भेज दिया गया है। अब जिले में एक्टिव केस 1545 हैं, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।  

Dakhal News

Dakhal News 29 May 2020


bhopal, Guidelines issued, passengers coming , other states, by air

भोपाल। भारत सरकार ने विभिन्न राज्यों में लॉकडाउन के चलते रुके हुए लोगों को अपने गृह राज्यों में वापस भेजने का निर्णय लिया है। इसके लिये हवाई मार्ग से यात्रा करने वाले यात्रियों के लिये दिशा-निर्देश जारी कर दिये गये हैं। इस निर्णय से मध्यप्रदेश में हवाई मार्ग से मुख्यतः इंदौर एवं भोपाल एयरपोर्ट पर यात्रियों की बहुतायत में आवागमन की संभावना है। गृह, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन सख्ती से सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये हैं। प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण श्री फैज अहमद किदवई ने दिशा-निर्देश जारी करते हुए बताया है कि प्रदेश में इन यात्रियों का एयरपोर्ट पर ही मेडिकल परीक्षण किया जाकर आवश्यक कार्यवाही की जायेगी। हवाई यात्रा से आने वाले यात्रियों के संबंध में जारी दिशा-निर्देश प्रमुख सचिव श्री किदवई ने निर्देश जारी करते हुए बताया है कि प्रदेश में अन्य राज्यों से हवाई मार्ग द्वारा यात्रा करने वाले यात्रियों द्वारा संबंधित एयरपोर्ट के अराइवल तथा डिपार्चर क्षेत्र में ही चिकित्सकीय जांच एवं स्व-घोषणा पत्र (व्यक्तिगत विवरण सहित फोन नंबर तथा प्रदेश में स्थाई निवास का पता) प्रस्तुत करना और निर्धारित स्वास्थ्य काउंटर पर चिकित्सकीय परीक्षण (थर्मल स्क्रीनिंग) कराना अनिवार्य होगा। चिकित्सीय परीक्षण के (थर्मल स्क्रीनिंग) दौरान यात्री जिनमें संभावित कोविड-19 के लक्षण पाए जाते हैं, ऐसे यात्रियों का कोविड-19 टेस्ट कराया जाए और जांच में परिणाम नेगेटिव आने पर ही घर भेजा जाए। यदि कोविड-19 टेस्ट में यात्री पॉजिटिव पाया जाता है तो ऐसे यात्री को अनिवार्य रूप से लक्षणों के आधार पर निर्धारित कोविड केयर सेण्टर अथवा डेडिकेटेड कोविड हेल्थ केयर सेण्टर अथवा संस्थागत आइसोलेशन किया जाना होगा। ऐसी स्थिति में जिले में निर्धारित कोविड केयर सेण्टर अथवा डेडिकेटेड कोविड हेल्थ केयर सेण्टर अपने आइसोलेशन सेण्टर में 10 दिवस के लिए भर्ती किया जाए। निर्धारित 10 दिवस की आइसोलेशन अवधि उपरांत रोगी की चिकित्सा जाँच कर विगत 3 दिन पूर्व से लक्षणविहीन पाए जाने पर उनकी आइसोलेशन अवधि समाप्त की जा सकती है। परन्तु यात्रियों को आगामी 07 दिवस तक होम आइसोलेशन में प्रोटोकाल पालन करते हुए घर पर ही रहने की सलाह देकर भेजा जा सकता है। जांच अवधि के दौरान यात्रियों को निर्धारित क्वारेंटाइन सेंटर में रखा जाना सुनिधित किया जाए। इन समस्त यात्रियों की सघन निगरानी के लिये उनके मोबाइल फ़ोन में 'आरोग्य सेतु ऍप' इंस्टॉल कराया जाए, जिससे मॉनिटरिंग सुनिश्चित हो सके।   ऐसे यात्री जो एयरपोर्ट के जिले के निवासी नहीं है अथवा किसी अन्य जिलों में प्रस्थान कर रहे है, उन जिलों के कलेक्टरों को सम्बंधित यात्रियों की सूचना प्रदान की जाए।

Dakhal News

Dakhal News 25 May 2020


ujjain, 25 new coronas ,found in Ujjain, 10 in Burhanpur infected

उज्जैन/बुरहानपुर। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। रविवार को देर रात आई रिपोर्ट में उज्जैन में 25 और बुरहानपुर में 10 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद उज्जैन में संक्रमित मरीजों की संख्या 578 और बुरहानपुर में 281 पहुंच गई है।उज्जैन के सीएमएचओ कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक, रविवार को देर रात आई रिपोर्ट में 25 नये पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इनमें उज्जैन शहर के 24 और बडऩगर का एक व्यक्ति शामिल है। वहीं, शहर में कोरोना से एक व्यक्ति की मौत की भी पुष्टि हुई है। यहां अब संक्रमित मरीजों की संख्या 578 हो गई है, जबकि मरने वालों का आंकड़ा 54 पहुंच गया है। राहत की खबर यह है कि अब तक जिले में 237 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं और वे पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं। वहीं, बुरहानपुर में सोमवार सुबह आई रिपोर्ट में 10 नये कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इसके साथ ही अब जिले में संक्रमित मरीजों की संख्या 289 हो गई है। यहां अब तक 13 लोगों की मौत भी हो चुकी है। हालांकि, जिले में 128 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं, लेकिन लगातार संक्रमित मरीज सामने आने के बाद जिला प्रशासन की चिंता बढ़ गई है।

Dakhal News

Dakhal News 25 May 2020


bhopal, Eid prayers, held homes, MP, pray,world  freed Corona

भोपाल। मध्यप्रदेश में राजधानी भोपाल समेत सभी शहरों, नगरों एवं कस्बों में मुस्लिम धर्मावलम्बियों द्वारा सोमवार को ईद का पर्व मनाया जा रहा है। कोरोना संक्रमण से बचने की सलाह और लॉकडाउन के नियमों का पालन करते हुए उन्होंने अपने घरों में रहकर ही ईद की नमाज अदी की और दुनिया को कोरोना से मुक्ति दिलाने की दुआ मांगी। वहीं, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए एक-दूसरे को ईद की शुभकामनाएं दी जा रही हैं।प्रदेश में ईद से पहले सभी जिला मुख्यालयों पर हुई शांति समिति की बैठकों में यह पर्व घरों में रहकर मनाने की सहमति बनी थी। इसी के मुताबिक, मुस्लिम बंधुओं ने सोमवार सुबह ईद की नमाज अपने घरों में अदा की। शहर काजी सैयद मुश्ताक अली नदवी ने बताया कि मस्जिदों में जिस तरह चार-पांच लोग रोजाना पांच वक्त की नमाज अदा करते हैं, उसी तरह ईद की नमाज भी हुई। अन्य सभी लोगों ने घरों में रहकर ही ईद की नमाज पढ़ी। इसी तरह पूरे प्रदेश में ईद मनाई जा रही है। समाज के लोग सोशल डिस्टेसिंग और अन्य प्रोटोकॉल का पालन करते हुए एक-दूसरे को सोशल मीडिया और मोबाइल के माध्यम से ईद की बधाई और शुभकामनाएं दे रहे हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 25 May 2020


bhopal, Central Semen Institute, plays, leading role, milk production , breed improvement

भोपाल। देश एवं प्रदेश में गौ-भैंस वंशीय पशुओं की उन्नत नस्ल तैयार कराने में मध्यप्रदेश राज्य पशुधन एवं कुक्कुट विकास निगम द्वारा संचालित केन्द्रीय वीर्य संस्थान भोपाल अग्रणी भूमिका निभा रहा है। यह संस्थान भारत सरकार से ए ग्रेड तथा आईएसओ 2001-2015 प्रमाण पत्र प्राप्त संस्थान है। भारतीय कृषि अर्थ-व्यवस्था में पशुपालन एवं डेयरी व्यवसाय महत्वपूर्ण स्थान रखता है। यह व्यवसाय ग्रामीणजनों के कल्याण, सामाजिक, आर्थिक विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। डेयरी व्यवसाय को और अधिक लाभ का धंधा बनाने के लिए पशुओं की दुग्ध उत्पादन क्षमता को और अधिक विकसित किया जा रहा है। इस दिशा में केन्द्रीय वीर्य संस्थान भोपाल निरंतर प्रयासरत है। निगम के प्रबंध संचालक श्री एच.बी.एस. भदौरिया ने बताया कि केन्द्रीय वीर्य संस्थान भोपाल राज्य की प्रजनन नीति के अनुसार हिमीकृत वीर्य की मांग की पूर्ति करता है। संस्थान के द्वारा कुल 16 नस्लों के गौ-भैंस वंशीय नंदी के प्रतिवर्ष 28 लाख तक हिमीकृत वीर्य डोजेज का उत्पादन किया गया है। जिन्हें भविष्य में बढ़ाकर 40 लाख तक किए जाने का लक्ष्य है। उन्होंने ने बताया कि प्रदेश की गौ-भैंस वंशीय नस्लों का जैविक सुरक्षा मानकों के अनुसार संधारण किया जाता है। पशुओं की दुग्ध उत्पादन क्षमता पशु की अनुवांशिक दुग्ध उत्पादन क्षमता एवं उपयुक्त पर्यावरण पर निर्भर करता है। भदभदा स्थित इस संस्थान में 16 उन्नत नस्ल के नंदी रखे गए हैं। उच्च श्रेणी के साण्डों के वीर्य का उपयोग उनकी संतति की दुध उत्पादन क्षमता में महत्वपूर्ण योगदान देता है। ऐसे साण्डों से उत्पन्न हिमीकृत वीर्य का उपयोग किसी भी प्रजनन में अत्यधिक महत्व रखता है।  

Dakhal News

Dakhal News 23 May 2020


sehore, Unidentified miscreants, set fire , car parked outside,  CMO

सीहोर। मध्य प्रदेश के सीहोर जिले में बुधनी नगर परिषद सीएमओ के घर के बाहर खड़ी कार में शुक्रवार देर रात अज्ञात बदमाशों ने आग लगा दी। आग से कार पूरी तरह जलकर खाक हो गई। आग की चपेट में आकर घर में लगा एसी और खिडक़ी भी जल गया। सूचना के बाद मौके पर पहुंची फायर बिग्रेड ने आग पर काबू पाया। यह पूरा घटनाक्रम वहां लगे एक सीसीटीवी में कैद हो गया है। पुलिस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपितों का पता लगाने में जुट गई है।    जानकारी अनुसार बुधनी नगर परिषद सीएमओ ज्योति सुनहरे अपनी मां और तीन साल की बेटी के साथ घर के अंदर सो रही थी। इस दौरान देर रात करीब तीन बजे दो अज्ञात बदमाशों ने उनके घर के सामने खड़ी कार में पेट्रोल डालकर आग लगा दी। आग तेजी से भडक़ती हुई मकान में लगे एक एसी और खिडक़ी तक पहुंच गई। आवाज सुनकर सीएमओ ज्योति सुनहरे की नींद खुली और उन्हें आग लगने का पता लगा। लोगों ने तुरंत पुलिस और फायर बिग्रेड को सूचना दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड ने जल्द ही आग पर काबू पा लिया, जिससे बड़ी घटना टल गई। आगजनी का पूरा घटनाक्रम वहां लगे एक सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गया है। जिसमें साफ तौर पर देखा जा सकता है कि रात करीब 3 बजे दो लोगों ने इस वारदात को अंजाम दिया है। बुधनी टीआई संध्या मिश्रा ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर इस घटना को अंजाम देने वाले अज्ञात को पहचानने का प्रयास किया जा रहा है। इस मामले की जांच की जा रही।

Dakhal News

Dakhal News 23 May 2020


datia, Severe fire, Grocery Store ,caused loss of millions

दतिया। दतिया जिला मुख्यालय स्थित पुराने कलेक्ट्रेट के सामने शुक्रवार सुबह एक किराना स्टोर में आग लग गई। देखते ही देखते आग तेजी से फैली और पूरे स्टोर को अपनी चपेट में ले लिया। सूचना मिलन पर दमकल की गाडिय़ां मौके पर पहुंची और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। बताया जा रहा है कि इस आगजनी में लाखों का सामान जलकर खाक हो गया। पुलिस ने मामले को जांच में लिया है।जानकारी के मुताबिक, शहर के पुराने कलेक्ट्रट के सामने स्थित हिन्दुजा फैमिली मार्ट नामक किराना स्टोर में शुक्रवार सुबह आसपास के लोगों ने धुआं उठते देखा और तत्काल स्टोर के मालिक के साथ ही पुलिस और फायर बिग्रेड को सूचना दी। इसके बाद स्थानीय लोग स्वयं आग बुझाने में जुट गए। कुछ ही देर में दमकल की गाडिय़ां मौके पर पहुंच गई और आग पर काबू पाया लिया। बताया जा रहा है कि स्टोर में आग शॉर्ट सर्किट होने की वजह से लगी थी। गनीमत रही कि समय रहते आग पर काबू पा लिया, वरना बड़ा हादसा होने की संभावना थी, क्योंकि आसपास काफी दुकानें और बैंक शाखा भी है। इस आगजनी में स्टोर में रखा लाखों का सामान पूरी तरह जल गया। इस हादसे में कितना नुकसान हुआ है, इसका आंकलन किया जा रहा है। 

Dakhal News

Dakhal News 22 May 2020


bhopal, INTUC ,protests ,against change, labor laws

भोपाल। मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश सहित अन्य राज्यों में श्रम कानूनों में श्रमिकों के हितों के खिलाफ किए गए बदलावों के विरोध में केन्द्रीय श्रम संगठनों के संयुक्त मोर्चे ने शुक्रवार को देशव्यापी अनशन व विरोध प्रदर्शन किया। भोपाल में इंटक से राष्ट्रीय संगठन मंत्री बी.डी. गौतम व के.के. नेमा के नेतृत्व में विरोध दिवस मनाया गया, इस अवसर पर कर्मचारी आयोग के सदस्य वीरेन्द्र खोंगल भी उपस्थित थे।    उल्लेखनीय है कि केन्द्रीय श्रमिक संगठनों के संयुक्त मोर्चे में इंटक, सीटू, एचएमएस, एटक, सीएआईटीयूसी, टीयूसीसी, सेवा, एआईसीटीयू , बैंक, बीमा सहित विभिन्न सेक्टर के फेडरेशन व एशोसिएशन शामिल हैं। संयुक्त मोर्चे की कॉरडिनेशन कमेटी के चेयरमेन व इंटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. जी. संजीवा रेड्डी के आव्हान पर आज संयुक्त मोर्चे की सभी यूनियनों व फेडरेशनों ने राज्य, जिला, तहसील व संस्थानों पर एक दिवसीय उपवास व प्रदर्शन कर केन्द्र व राज्य सरकारों द्वारा श्रम कानूनों में किए गए बदलाव का विरोध कर उन्हें वापस लेने की मांग की। यह जानकारी इंटक के राष्ट्रीय संगठन मंत्री बी.डी. गौतम ने दी ।    इंटक के राष्ट्रीय संगठन मंत्री बी.डी. गौतम ने बताया कि संयुक्त मोर्चे के चैयरमेन इंटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ.जी.संजीवा रेड्डी के निर्देशानुसार कोरोना संकट के चलते देश व प्रदेश में लॉकडाउन के कारण सरकार व जिला प्रशासन द्वारा जो आदेश, नियम व दिशा निर्देश जारी किए गए हैं उनका पूर्णत: पालन करते हुए अनुशासन के साथ यूनियन ऑफिस या जो जहाँ है वहीं पर अथवा लॉक डाउन में घर पर है तो वहीं पर काली पट्टी लगाकर, उपवास रखकर विरोध प्रकट किया गया। सरकार व प्रशासन के निर्देशानुसार चेहरे पर मास्क अनिवार्यत: लगाया गया है। इसी प्रकार सेनेटाइजेशन, सोशल डिस्टेंसिंग व अन्य निर्धारित मापदंडों तथा सरकार के निर्देशों का पालन करते हुए जो जहां है वहीं पर श्रम कानूनों में श्रमिकों के हितों के विपरीत किये गए बदलावों का विरोध करते हुए इन्हें वापस लेने की मांग की गई।  

Dakhal News

Dakhal News 22 May 2020


bhopal, Weather update,  remain hot and dry, Madhya Pradesh, this week

भोपाल। यह प्री-मॉनसून सीजन मध्य प्रदेश में बारिश के हिसाब से अब तक बहुत अच्छा रहा है। 1 मार्च से 22 मई तक पश्चिमी मध्य प्रदेश में सामान्य से 162 प्रतिशत ज़्यादा बारिश रिकॉर्ड की गई है। जबकि पूर्वी मध्य प्रदेश में सामान्य से 284 प्रतिशत अधिक बारिश हो चुकी है।    इस सप्ताह यानि 22 से 28 मई के बीच पूरे सप्ताह मध्य प्रदेश में मौसम गर्म तथा शुष्क ही बने रहने संभावना है। दिन के तापमान बढऩे के कारण ही मध्य प्रदेश के कई जिलों में लू का प्रकोप दिखाई देगा। कई स्थानों पर तापमान 45-46 डिग्री सेल्सियस के भी पार चले जाने की आशंका है। खरगौन, देवास, धार, रतलाम, उज्जैन जैसे दक्षिण-पश्चिमी जिलों में अपेक्षाकृत गर्मी अधिक होगी। यही वह क्षेत्र होंगे जहां तापमान 45 डिग्री या उससे भी ऊपर पहुँच सकता है। जबकि उत्तरी भागों में गुना, ग्वालियर, दतिया, सागर, सतना और पन्ना तथा आसपास के हिस्सों में पारा 42-43 डिग्री के करीब रहेगा।  

Dakhal News

Dakhal News 22 May 2020


bhopal, mercury will rise , Nautpa, after 7 days, intense heat

भोपाल। सूर्य के 25 मई को रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करते ही नौतपा की शुरुआत हो जाएगी। मध्य प्रदेश में हर साल की तरह इस बार भी नौतपा में पारा खूब चढ़ेगा। नौतपा के नौ दिनों में से सात दिनों में तापमान में इजाफा होने के साथ लू चलने के भी आसार हैं। नौतपा के 7 दिनों में सूरज के तीखे तेवर से लोगों को तेज गर्मी का अहसास होगा तो वहीं आखिरी दो दिनों में सूरज के तेवर थोड़े से नरम नजर आएंगे।   वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला का कहना है कि मध्य प्रदेश में अभी मौसम पूरी तरह से शुष्क है।  किसी भी जिले में ना तो बारिश के आसार हैं और ना ही तेज हवाओं के साथ हल्की बूंदाबांदी की आशंका है। हालांकि एक वेस्टर्न डिस्टरबेंस 22 मई से बन रहा है लेकिन इसका असर प्रदेश में नहीं होगा।   नौतपा की शुरुआत से पहले ही चढ़ा पारा प्रदेश भर में 16 मई तक लोगों को तीखी गर्मी से राहत थी लेकिन 17 मई के बाद तापमान में इजाफा हुआ। प्रदेश में इन दिनों 26 जिलों में तापमान 41 डिग्री के पार पहुंच गया है तो वहीं नौतपा में तापमान उच्च जिलों में 45 डिग्री के पार पहुंचने के आसार हैं।   निमाड़ में चल रही है लू मई के महीने में कई सालों बाद इस साल यह मौका रहा जब लोगों को लू से राहत मिली है पर तापमान बढऩे के साथ दो दिनों से निमाड़ में लू चल रही है। खरगोन के साथ पूरे निमाड़ में तापमान 45 डिग्री रिकॉर्ड होने के साथ गर्म हवा थपेड़े (लू )चले। नौतपा में प्रदेश भर के ज्यादातर जिले लू की चपेट में रहेंगे। मालवा, निमाड़, चंबल के जिलों में तापमान 45 डिग्री के पार पहुँचने के आसार है।   सात दिन खूब तपने के बाद 2 दिन मिलेगी राहत नौतपा पर ग्रह नक्षत्र का प्रभाव रहता है। मौसम वैज्ञानिक और ज्योतिषविद का कहना है कि रोहणी नक्षत्र में सूर्य के रहते 9 दिनों तक गर्मी पड़ती है। रोहिणी नक्षत्र का स्वामी चंद्रमा है, जो सूर्य के प्रभाव में आ जाता है। गुरु और शनि की वक्री चाल के चलते नौतपा इस बार खूब तपेगा लेकिन शुरुआती 7 दिनों में पारा चढऩे से लोगों को तेज गर्मी का एहसास होगा। 30 मई को शुक्र के अपनी ही राशि वृषभ में अस्त होने के कारण गर्मी में कमी आ जाएगी। नौतपा के आखिरी दो दिनों में तेज हवा और आंधी चलने या बारिश होने के भी आसार नजर आ रहे हैं।    खरगोन में तापमान 45 डिग्री के पार पहुंचने के साथ चली लू प्रदेश भर में खरगोन में पारा खूब चढ़ा है। खरगोन में तापमान 45 डिग्री के पार पहुँचने से लोगों को झुलसाने वाली गर्मी का एहसास हो रहा है। रायसेन 43.6डिग्री, रतलाम, शाजापुर में 43.5 डिग्री, खंडवा 43.1 डिग्री, नोगांव-दमोह 43 डिग्री, गुना 42.8 डिग्री, ग्वालियर-राजगढ़ 42.7 डिग्री, उज्जैन-सागर 42.6डिग्री, खजुराहो-42.2डिग्री, भोपाल-होशंगाबाद 42डिग्री, टीकमगढ़ 41.7 डिग्री, जबलपुर 41.3डिग्री, सीधी-उमरिया-मंडला 41.4 डिग्री, उमरिया 41.1डिग्री,सतना 40.7 डिग्री, छिंदवाड़ा-40.6डिग्री, बैतूल-40.2 डिग्री तापमान दर्ज किया गया।   क्या है नौतपा सूर्य घूमते हुए मध्य भारत के ऊपर आ जाता है और जब यह कर्क रेखा के पास पहुंच जाता है तब 90 डिग्री की पोजीशन में होता है जिससे किरणें सीधी पृथ्वी पर पड़ती है। इसी कारण तापमान बढ़ जाता है। हालांकि मई के दिनों में दिन बड़े होते हैं और रेडिएशन भी ज्यादा होता है। यही वजह है कि पृथ्वी इन दोनों भट्टी की तरह तपती है। पृथ्वी के तपने के कारण ही नौतपा में लोगों को भीषण गर्मी का एहसास होता है।    तेज हवाओं के साथ हल्की बारिश प्री मॉनसून एक्टिविटी मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला का कहना है कि प्रदेश भर में अभी मौसम पूरी तरह से शुष्क है यानी किसी भी जिले में ना तो बारिश के आसार हैं और ना ही तेज हवाओं के साथ हल्की बूंदाबांदी की आशंका है। हालांकि एक वेस्टर्न डिस्टरबेंस 22 मई से बन रहा है लेकिन इसका असर मध्यप्रदेश में नहीं होगा। प्रदेश भर में तापमान में इजाफा होगा। नौतपा के पहले बूंदाबांदी और बारिश होने के आसार नहीं हैं। 10 से 17 मई के बीच जिलों में होने वाली तेज हवाओं के साथ हल्की बूंदाबांदी और बारिश प्री मॉनसून एक्टिविटी ही है। मानसून के सक्रिय होने से पहले इस तरह की प्री मॉनसून एक्टिविटीज देखी जाती है।

Dakhal News

Dakhal News 22 May 2020


bhopal, indore, More than 5000 industrialists, Madhya Pradesh ,staged online sit-in

इंदौर/भोपाल। मध्‍य प्रदेश में कोरोना संकट के बीच लॉकडाडन के चलते पिछले दो माह से उद्योग लगभग बंद हैं लेकिन उसके बाद भी भारी-भरकम बिजली बिल देखकर सभी उद्योगपति परेशान हैं। अब लॉकडाउन के बीच गुरुवार को मध्‍य प्रदेश के पांच हजार से अधिक छोटे व मध्यम उद्योगपति राज्‍य सरकार के खिलाफ ऑनलाइन धरना देने बैठ गए। इस ऑनलाइन धरने में एसोसिएशन ऑफ इंडस्ट्रीज मध्‍य प्रदेश से जुड़े लगभग सभी उद्योगपति हाथों में बिजली बिल में सुधार सहित अन्य मांगे लिखी तख्तियां लेकर शामिल हुए।  पूरे मामले को लेकर एसोसिएशन ऑफ इंडस्ट्रीज मप्र (एआईएमपी) के अध्यक्ष प्रमोद डफरिया का कहना है कि हमारे संगठन ने आज से यह धरना शुरू किया है लेकिन सरकार यदि नहीं सुनेगी तो यह धरना लम्‍बा चलेगा। उन्‍होंने कहा कि कोरोना काल में पिछले दो माह से प्रदेश भर में लगभग अधिकांश फैक्ट्रियां बंद है, काम करने के लिए मजदूर हैं नहीं, कहीं कुछ काम हुआ नहीं है, इसके बाद भी उद्योगपतियों को बिजली विभाग ने लाखों रुपये के बिल थमा दिए हैं।  उनका यह भी कहना था कि राज्‍य के उद्योगपतियों की आर्थ‍िक हालत पहले से ही काम बंद होने के कारण खराब चल रही है, फिर भी केंद्र सरकार एवं राज्‍य की शिवराज सरकार के निर्देशों का पालन करते हुए उद्योगपति और व्‍यापारियों ने मजदूरों एवं कर्मचारियों को वेतन दिया है। डफरिया का कहना है कि ऐसे वक्‍त में सरकार को हमारी भरपूर सहायता करनी चाहिए, नहीं तो प्रदेश में उद्योग चलाना मुश्किल होगा।   

Dakhal News

Dakhal News 21 May 2020


indore,Online booking ,can start , June 1 ,selected cities

इन्दौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर से आगामी एक जून से कुछ चुनिंदा शहरों के लिए घरेलू उड़ानें शुरू हो सकती हैं। हालांकि अभी एयरपोर्ट प्रबंधन को इस संबंध में कोई आधिकारिक आदेश प्राप्त नहीं हुए हैं, लेकिन कुछ शहरों के लिए ऑनलाइन बुकिंग शुरू कर दी गई है। एयरपोर्ट प्रबंधन ने एक जून से घरेलू उड़ाने शुरू करने की पूरी तैयारी कर ली है और कर्मचारियों को फ्लाइट ऑपरेशन शुरू होने के बाद कैसे काम करने है, इसका प्रशिक्षण दिया जा रहा है।गौरतलब है कि उड्यन मंत्रालय ने 25 मई से घरेलू उड़ान शुरू करने की घोषणा की है। इस संबंध में इंदौर एयरपोर्ट प्रबंधन का कहना है कि अभी उसे इस संबंध में आधिकारिक आदेश नहीं मिला है, लेकिन यहां एक जून से कुछ चुनिंदा शहरों के लिए ऑनलाइन बुकिंग शुरू की गई है। मेक माय ट्रिप, अन्य ट्रेवल एप और एयरलाइंस द्वारा इन्दौर से मुंबई, दिल्ली, बंैगलुरू, हैदराबाद, गोवा, अहमदाबाद के लिए टिकट बुक करा सकते हैं। इसके अलावा एयरलाइंस के एप भी बुकिंग की जा रही है। एयरपोर्ट प्रबंधन के अनुसार, उड्डयन मंत्रालय ने आदेश जारी किया है। इसके बाद यहां उड़ाने शुरू करने की तैयारियां की गई हैं और कर्मचारियों को लगातार प्रशिक्षण दिया जा रहा है। जल्द ही आधिकारिक आदेश भी आ जाएगा। इसके बाद यहां एक जून से कुछ चुनिंदा शहरों के लिए उड़ानें शुरू की जाएंगी। इसके लिए बुकिंग प्रारंभ कर दी गई है।

Dakhal News

Dakhal News 21 May 2020


indore, 59 new corona cases,died

इंदौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है। यहां फिर 59 नये मामले सामने आए हैं। इसके बाद यहां संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 2774 हो गई है। वहीं, दो लोगों की मौत की भी पुष्टि हुई है। इन्हें मिलाकर अब तक इंदौर में कोरोना से 107 लोगों की मौत हो चुकी है।इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने गुरुवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा बुधवार को देर रात 644 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की, जिसमें 581 सेम्पल निगेटिव और 59 सेम्पल पॉजिटिव पाए गए हैं। वहीं, दो लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। मृतकों में एक 62 और एक 57 वर्षीय पुरुष शामिल है। नये मामलों के साथ अब इंदौर में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 2774 हो गई है, जबकि मरने वालों की संख्या 107 पहुंच गई है। उन्होंने बताया कि इंदौर में 1213 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं। अब शहर में एक्टिव मामले 1454 हैं, जिनका विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 21 May 2020


bhopal, Construction, two bridges,repair of one bridge,  892 lakhs,Gwalior division

भोपाल।  ग्वालियर संभाग में 892 लाख 26 हजार लागत से दो नदी पुलों का निर्माण और एक पुल की मरम्मत करने के कार्य की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। लोक निर्माण विभाग सेतु निर्माण संभाग द्वारा पुल निर्माण और मरम्मत करने वाली एजेन्सियों का निर्धारण किया जा रहा है। सेतु निर्माण संभाग ग्वालियर द्वारा जानकारी दी गई कि अशोकनगर जिले की मुगावली तहसील में बम्होरी-खाकलोन मार्ग में वेलन नदी पर पहुँच मार्ग सहित उच्चस्तरीय पुल का निर्माण 448 लाख 9 हजार रुपये की लागत से होगा। शिवपुरी जिले के ग्राम उमरीकला के पास मनपुरा खोड मार्ग से महुअर नदी पर उच्चस्तरीय पुल का निर्माण 439 लाख 72 हजार रुपये से किया जायगा। ग्वालियर में छेवरा छिरेटा मार्ग में नोन नदी के जलमग्नीय पुल के विशेष मरम्मत के कार्य को 4 लाख 45 हजार रुपये से किया जाएगा। यह सभी कार्य निर्धारित समय-सीमा में पूरा करवाये जायगें।

Dakhal News

Dakhal News 19 May 2020


bhopal, Corona havoc, found 42 korona positive,Tuesday morning

भोपाल। शहर में कोरोना पॉजिटिव रोगियों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। यहां पिछले दो हफ्तों से ज्यादा तेजी देखने को मिल रही है। पिछले दो हफ्तों से भोपाल में रोज़ाना 30 से 40 के बीच कोरोना संक्रमित पाए जा रहें हैं।  सोमवार देर रात तक आई रिपोर्ट में कुल 38 नए मरीज मिले थे। जिसके बाद मंगलवार सुबह 42 लोगों को कोरोना पॉजिटव पाया गया है।    राजधानी भोपाल में मंगलवार सुबह 42 नए कोरोना पॉजीटिव पाए गए, जिसके बाद अब कोरोना से संक्रिमितों की कुल संख्या 1072 हो गई है। वहीं राजधानी में अब तक 39 लोग कोरोना से दम तोड़ चुके हैं। राजधानी में बढ़ते मामलों के साथ संक्रमण से ठीक होने के मामले भी लगातार बढ़ रहें है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि बीते सोमवार को अस्पतालों से 28 कोरोना संक्रमित मरीज डिस्चार्ज हुए है। वहीं भोपाल में अब तक एम्स, चिरायु और बंसल अस्पताल से कुल 667 लोग कोरोना से जंग जीतकर घर जा चुके हैं।    सीएमएचओ ने बताया कि मंगलवार सुबह पाए गए सभी सभी कोरोना संक्रमितों की कॉन्ट्रेक्ट हिस्ट्री निकाली जा रही है। सभी संक्रमित लोगों को हॉस्पिटल में शिफ्ट किया गया है। वहीं सभी के घरों को एपिक सेन्टर घोषित कर घर के एक किमी के दायरे को निषिद्ध क्षेत्र घोषित कर दिया गया है।

Dakhal News

Dakhal News 19 May 2020


jabalpur, 16 shops,ancient,Tripura Sundari temple, burnt down

जबलपुर। मध्यप्रदेश की संस्कारधानी जबलपुर के विश्व प्रसिद्ध त्रिपुर सुंदरी मंदिर के पास स्थित पूजा की दुकानों में मंगलवार को तडक़े भीषण आग लग गई। देखते ही देखते आग तेजी से फैल गई और 16 दुकानों को अपनी चपेट में ले लिया। सूचना मिलने पर पुलिस और दमकल की गाडिय़ां मौके पर पहुंची और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया, लेकिन तब तक दुकानों में रखी पूजन सामग्री जलकर खाक हो गई। बताया जा रहा है कि इस आगजनी में लाखों का नुकसान हो गया। जानकारी के अनुसार, त्रिपुर सुंदरी मंदिर के सेवकों ने मंगलवार को तडक़े करीब 3.30 बजे मंदिर के पास स्थित पूजन सामग्रियों की दुकान से धुआं उठते देखा और तत्काल फायर ब्रिगेड व पुलिस को सूचना दी। जब तक पुलिस और दमकल की गाडिय़ां मौके पर पहुंची, तब तक आग ने विकराल रूप ले लिया और दुकानें धू-धू कर जल रही थी। जबलपुर नगर निगम और भेड़ाघाट नगरपालिका की दमकलों ने तत्काल आग बुझाना शुरू किया और कड़ी मशक्कत के बाद करीब दो घंटे में आग पर काबू पाया। बताया जा रहा है कि आगजनी की इस घटना में पूजन-सामग्री की 16 दुकानें पूरी तरह जल गईं। दुकानें कच्ची होने के कारण आग तेजी से फैली। दुकान संचालकों के मुताबिक, चैत्र नवरात्रि के लिए पहले ही दुकानों में स्टॉक किया गया था, जो कि लॉकडाउन के चलते बिक नहीं पाया। दुकानों में रखे सूखे नारियल, कपड़ा, चुनरी समेत लाखों का सामान इस आगजनी में जलकर खाक हो गया। जानकारी मिलने पर प्रशासनिक अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने दुकान संचालकों को मदद का आश्वासन दिया है। इस आगजनी में कितना नुकसान हुआ है, इसका आकलन किया जा रहा है। पुलिस ने भी मामले की जांच शुरू कर दी है।गौरतलब है कि जबलपुर के प्रसद्धि त्रिपुर सुंदरी मंदिर में चैत्र नवरात्र के समय लाखों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचते हैं। दुकान संचालकों को उम्मीद थी कि लॉकडाउन खुलने के बाद बड़ी संख्या में भीड़ उमड़ेगी, इसीलिए उन्होंने दुकानों में माल भर रखा था। स्थानीय लोगों का कहना है कि दुकान संचालकों ने चैत्र नवरात्र को लेकर अपनी दुकानों में कर्ज लेकर माल भरा था। पहले कोरोना वायरस के लॉकडाउन ने दुकानदारों की कमर तोड़ दी और आग में रखा सामान भी पूरा जल गया। इससे दुकान संचालकों का गुजर-बसर करना मुश्किल हो गया है। दुकान संचालकों ने जिला प्रशासन से मुआवजे की मांग की है।

Dakhal News

Dakhal News 19 May 2020


vidisha, brothers returning,Indore, truck killed, one killed and injured

विदिशा। लॉकडाउन के दौरान इंदौर से अपने घर जा रहे दो भाई रविवार रात हादसे के शिकार हो गए। उनकी बाइक को एक ट्रक ने टक्कर मार दी। हादसे में एक भाई की मौत हो गई, जबकि दूसरा घायल है।    प्राप्त जानकारी के अनुसार विदिशा जिले में नेशनल हाईवे 146 पर स्थित कुआं खेड़ी के पास अज्ञात ट्रक की टक्कर से दो सगे भाई गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें जिला अस्पताल पहुंचाया गया। गंभीर रूप से घायल 25 वर्षीय विजय केवट को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया जबकि उसके भाई गुलाब की हालत गंभीर बताई जा रही है। घटना रविवार रात करीब 2:30 बजे की बताई जा रही है। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार दोनों भाई चित्रकूट जिला थाना राजापुर के ग्राम बिहरवा निवासी हैं और इंदौर में काम करते थे। लॉकडाउन के कारण बाइक से अपने गांव जा रहे थे।  पुलिस ने उनके परिजनों को इस हादसे की सूचना दे दी है।  

Dakhal News

Dakhal News 18 May 2020


bhopal, 250 deaths , reported, MP Corona ,121 new cases,  number of infected, 5098.

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यहां अब 121 नये मामले सामने आने के बाद कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या पांच हजार के पार पहुंचकर 5098 हो गई है। वहीं, दो लोगों की मौत की पुष्टि होने के बाद यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 250 पहुंच गई है। इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. प्रवीण जडिय़ा ने सोमवार को बताया कि एमजीएम मेडिकल कॉलेज द्वारा रविवार को देर रात 1511 सेम्पलों की जांच रिपोर्ट जारी की गई, जिसमें 95 रिपोर्ट पॉजिटिव और शेष रिपोर्ट निगेटिव आई हैं। इन नये मामलों के साथ इंदौर में अब इंदौर में कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 2565 तक जा पहुंची है। वहीं, एक 71 वर्षीय पुरुष की मौत की पुष्टि हुई है। इसके बाद इंदौर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 101 हो गई है।इसी तरह उज्जैन में भी रविवार देर रात आई रिपोर्ट में कोरोना के 12 नए मामले सामने आए हैं। इन्हें मिलाकर अब जिले में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 341 हो गई है। वहीं, कोरोना संक्रमण से एक 59 साल की व्यक्ति की मौत की पुष्टि हुई है। अब यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 48 हो गई है। इसके अलावा, सोमवार सुबह धार में 10, रायसेन में दो राजगढ़ में एक और देवास में एक कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं।इन नये 121 मामलों के साथ राज्य में अब कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 4977 से बढक़र 5098 हो गई है। इनमें सबसे अधिक इंदौर में 2565, भोपाल 992, उज्जैन 341, जबलपुर 175, बुरहानपुर 149, खरगौन 99, धार 106, खंडवा 96, रायसेन 67, मंदसौर 60, देवास 63, नीमच 50, होशंगाबाद 37, ग्वालियर 58, बड़वानी 29, मुरैना 29,  रतलाम 28, आगरमालवा 13,  विदिशा 15, सागर 19, शाजापुर 08, भिण्ड 17, छिंदवाड़ा 05, सतना 08, श्योपुर 04, सीधी 04, अलीराजपुर 03, अनूपपुर 03, शहडोल 03, हरदा 03,  शिवपुरी 03, टीमकगढ़ 05, रीवा 11, डिंडौरी 02, बैतूल 03, अशोकनगर 02, पन्ना 02, झाबुआ 07. सीहोर 05, गुना 01, मंडला 01, सिवनी 01, दतिया 03 दमोह 01 राजगढ़ 01, और उमरिया का एक मरीज शामिल है। इंदौर और उज्जैन में हुई एक-एक मौतों के बाद मध्यप्रदेश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 248 से बढक़र 250 हो गई है। मृतकों में सबसे अधिक इंदौर के 101, भोपाल 38, उज्जैन 48, खरगौन 08, देवास 07, बुरहानपुर 10, धार, 02, जबलपुर 08, खंडवा 08, रायसेन 03,  छिंदवाड़ा 01, मंदसौर 05, होशंगाबाद 03,  नीमच 01, अशोकनगर 01, आगर मालवा 01, सतना 01, सागर 01, ग्वालियर 01 और शाजापुर का एक व्यक्ति शामिल है।  

Dakhal News

Dakhal News 18 May 2020


gwalior, Fierce fire, three-storey building, kills seven, including three children

ग्वालियर। शहर के इंदरगंज रोशनी रोड पर स्थित एक तीन मंजिला इमारत में सोमवार सुबह आग लग गई। देखते ही देखते आग तेजी से फैल गई और दुकान के साथ ही ऊपरी मंजिल के घरों को अपनी चपेट में ले लिया। इस अग्निकांड में अग्रवाल (गोयल) परिवार के सात लोगों की मौत हो गई। मृतकों में तीन बच्चे और चार महिलाएं शामिल हैं। इसके अलावा दो अन्य महिलाएं बुरी तरह झुलस गई, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटनास्थल पर जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक, नगर निगम कमिश्नर सहित प्रशासन के आला अधिकारी और राजनेता भी पहुंच गए। घटना इंदरगंज थाने से महज 100 मीट की दूरी पर हुई। ग्वालियर के इंदरगंज थाना इलाके में रोशनी घर मार्ग पर अग्रवाल परिवार का पेंट कारोबार है। तीन मंजिला बिल्डिंग में नीचे दुकान है और तीन भाइयों हरिओम, जगमोहन और जयकिशन उर्फ लल्ला गोयल  के परिवार ऊपर रहते हैं। सोमवार की सुबह दुकान में शार्ट सर्किट से आग लगी और देखते ही देखते आग ने विकराल रूप लेकर पूरे तीन मंजिला बिल्डिंग को अपनी चपेट में ले लिया। बिल्डिंग में अग्रवाल (गोयल) परिवार के कुल 16 सदस्य थे, जो कि आग की चपेट में आकर बुरी तरह झुलस गए। सूचना मिलते ही या इंदरगंज थाना पुलिस और फायर ब्रिगेड का अमला मौके पर पहुंच गया और आग बुझाना शुरू करते हुए मकान में फंसे लोगों को बाहर निकालकर अस्पताल पहुंचाया, लेकिन तब तक सात लोगों की जिंदा जलकर मौत हो चुकी थी। एडिशनल एसपी सतेन्द्र सिंह तोमर ने इस आगजनी में सात लोगों की मरने की पुष्टि की है। मृतकों में तीन बच्चे और चार महिलाएं शामिल हैं। मृतकों में चार वर्षीय आराध्या पुत्री सुमित गोयल, 10 वर्षीय आर्यन पुत्र साकेत गोयल, 13 वर्षीय शुभी पुत्री श्याम गोयल, 37 वर्षीय आरती पत्नी श्याम गोयल, 60 वर्षीय शकुंतला पत्नी जय किशन गोयल, 33 वर्षीय प्रियंका पत्नी साकेत गोयल और 55 वर्षीय मधु पत्नी हरिओम गोयल शामिल हैं।जानकारी गलते ही कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, एसपी नवनीत भसीन समेत आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए थे और रेस्क्यू ऑपरेशन पर नजर रखी। वहीं, सांसद विवेक शेजवलकर, पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल, चेम्बर अध्यक्ष विजय आदि जनप्रतिनिधियों ने भी मौके पर पहुंचकर मामले की जानकारी ली। घनी आबादी और संकरी गली में बिल्डिंग होने के कारण आग पर काबू पाने में दमकलकर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी। फिलहाल आग पर काबू पा लिया गया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

Dakhal News

Dakhal News 18 May 2020


bhopal,Number,20 new positive, infections  Corona found,920

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यहां फिर नये पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इसके साथ ही यहां कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 920 हो गई है, जबकि इस महामारी से भोपाल में अब तक 35 लोगों की  मौत हो चुकी है। हालांकि, राहत की खबर यह है कि यहां स्वस्थ हो चुके मरीजों की संख्या एक्टिव मामलों से काफी अधिक है।भोपाल के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. प्रभाकर तिवारी ने बताया कि शुक्रवार सुबह एम्स से जारी हुई रिपोर्ट में 20 नए कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है। इन्हें मिलाकर अब भोपाल में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 920 हो गई है। इनमें से अब तक 529 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं और उन्हें विभिन्न अस्पतालों से डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब भोपाल में एक्टिव मरीजों की संख्या 356 है, जिनका उपचार जारी है। नये संक्रमित मरीजों के क्षेत्रों को कंटेन्मेंट एरिया घोषित कर दिया गया है और उनकी कान्टेक्ट हिस्टी निकाली जा रही है।

Dakhal News

Dakhal News 15 May 2020


bhopal, Planets ,do not have reverse gear. Sarika, secret of the planets ,retrograde

भोपाल। कोरोना संकट काल में एस्ट्रोलॉजी से संबंधित खबरें भी मीडिया की सुर्खियां बन रही हैं। इनमें ग्रहों के वक्री होने की बात जानकर आम लोगों को ग्रहों के रिवर्स गियर में चलने का अंदाज लगता है, जबकि सामान्य विद्यार्थी भी जानता है कि सोलरसिस्टम में सभी प्लेनेट सूर्य की परिक्रमा एक ही दिशा में चलते हुए करते रहते हैं। ग्रहों में रिवर्स गियर नहीं होता है। यह जानकारी राष्ट्रीय अवार्ड प्राप्त भोपाल की विज्ञान प्रसारक सारिका घारू ने शुक्रवार को मीडिया को दी।उन्होंने एक मॉडल के माध्यम से ग्रहों का वक्री का रहस्य समझाते हुए बताया कि सभी ग्रह अपने ही पथ पर चलते हुए सूर्य की परिक्रमा करते हैं। आकाश में कोई नगर, पहाड़, पेड़ बगैरह तो है नहीं, जिससे पता चल सके कि कौन सा ग्रह किस पहाड़ या नगर के पास है। इसके लिये उनके पीछे स्थाई रूप से दिखने वाले राशि तारामंडल को आधार माना जाता है, जिसमें यह देखा जाता है कि कोई ग्रह इस समय किस तारामंडल के सामने है। सारिका ने बताया कि परिक्रमा करते हुए जब पड़ौसी ग्रह पृथ्वी के निकट आते हैं तो पृथ्वी की गति अधिक होने से उनके बगल में स्थित ये ग्रह पीछे छूटते नजर आते हैं अर्थात उनके बैकग्राउंड में वह तारामंडल दिखने लगता है, जो कुछ दिन पहले देखा गया था। इससे लगता है कि ग्रह वापस पुराने तारामंडल में जा रहा है। उन्होंने बताया कि सूर्य की परिक्रमा करते हुए यह ग्रह अंडाकार पथ पर पृथ्वी के निकट आते हैं, तब इनके वक्री होने या उल्टे चलने का आभास होता है। एस्ट्रोलॉजी में शुक्र, शनि और बृहस्पति इसी सप्ताह वक्री बताये गये हैं। इसका कारण यह है कि अपनी राह में चलते समय पृथ्वी की मुलाकात इस समय इन ग्रहों से होने जा रही है और इनके वक्री हो जाने की बात के डर का आभास हो रहा है। उन्होंने कहा कि ग्रहों के उल्टे चलने जैसी बातों से डरने की आवश्यकता नहीं है। 

Dakhal News

Dakhal News 15 May 2020


Guna, road collision,second consecutive day, one killed ,traveltrack collision

गुना। प्रदेश के गुना जिला मुख्यालय पर गुरुवार को तडक़े एक बड़ा सडक़ हादसा हुआ था। महाराष्ट्र से श्रमिकों को लेकर जा रहे एक ट्रक और बस के बीच जोरदार टक्कर में नौ लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 50 से अधिक घायल हो गए थे। यहां बीती रात फिर एक बड़ा सडक़ हादसा हो गया। बता जा रहा है कि महाराष्ट्र के पुणे से मजदूरों को एक ट्रक उत्तराखंड के बागेश्वर जा रहा था। इसी दौरान गुना जिले के राघौगढ़ थाना क्षेत्र में एक टेम्पो ट्रैवलर वाहन (बड़ी जीप) ने पीछे से ट्रक को टक्कर मार दी। इस हादसे में एक मजदूर की मौत हो गई, जबकि आठ घायल हो गए। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले को जांच में लिया है। राघौगढ़ थाना पुलिस के अनुसार, राष्ट्रीय राजमार्ग-46 पर क्षेत्र के ग्राम आवन के पास गुरुवार को देर रात महराष्ट्र के पुणे से मजदूरों को लेकर उत्तराखंड के बागेश्वर जा रहे एक ट्रक को टेम्पो ट्रैवलर वाहन ने पीछे से जोरदार टक्कर मार दी। इस हादसे में ट्रक में सवाल एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि आठ मजदूर घायल हो गए। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को राघौगढ़ के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अस्पताल पहुंचाया। वहीं, मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू की। मृतक का नाम नंदन सिंह निवासी बागेश्वर (उत्तराखंड) बताया गया है। वहीं, दो घायल दशरथ सिंह और विमला देवी को गंभीर हालत में जिला अस्पताल रैफर किया गया है। बताया गया है कि सभी मजदूर पुणे के एक होटल में काम करते थे और लॉकडाउन के चलते वे ट्रक में सवार होकर अपने गांव बागेश्वर जा रहे थे।

Dakhal News

Dakhal News 15 May 2020


Special train ,leave ,Indore to Rewa ,tonight

इंदौर। इंदौर से रीवा के लिए विशेष ट्रेन बुधवार 13 मई को रात 9:00 बजे इंदौर रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म क्रमांक 1 से रवाना होगी। इसके लिए रेलवे की ओर से सभी तैयारियां कर ली गई हैं।    रेलवे के अनुसार रीवा जाने वाली स्पेशल ट्रेन में कुल 22 कोच होंगे। इनमें से 17 स्लीपर कोच, 3 जनरल कोच और 2 पॉवर कोच रहेंगे। इस स्पेशल ट्रेन का रेक बुधवार सुबह रतलाम पहुंच चुका है। दोपहर बाद यह रेक इंदौर पहुंचेगा। इंदौर में इस रैक को सैनिटाइज किया जाएगा। रेल प्रशासन ने स्टेशन पर गहमागहमी न होने देने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए व्यापक व्यवस्थाएं की हैं। इसके लिए रेलवे स्टेशन पर यात्रियों के अलावा अन्य किसी को भी प्रवेश नहीं दिया जाएगा। यात्रियों को छोड़ने के लिए स्टेशन पर अनावश्यक रूप से आने वालों को प्रवेश की अनुमति नहीं रहेगी। गौरतलब है कि हालत ही में गुजरात के भुज स्टेशन पर विशेष ट्रेन पर यात्रियों को छोड़ने के लिए भारी भीड़ जमा होने से अव्यवस्था हो गई थी। इसे ध्यान में रखते हुए इंदौर में रेल विभाग विशेष सतर्कता बरत रहा है।  

Dakhal News

Dakhal News 13 May 2020


shivpuri, Eight injured, collision ,between truck and bus, filled laborers

शिवपुरी। जिले के बदरवास थाना क्षेत्र अंतर्गत एबी रोड फोरलेन पर स्थित ग्राम बरखेड़ा के पास बुधवार को सुबह मजदूरों को ले जा रही एक बस सडक़ किनारे खड़े एक ट्रक से टकरा गई। बताया जा रहा है कि ट्रक में भी मजदूर भरे हुए थे और बस कोल्हापुर से मजदूरों को लेकर शिवपुरी आ रही थी। इसी दौरान यह हादसा हो गया। इस हादसे में आठ मजदूर घायल हो गए। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और एम्बुलेंस के माध्यम से घायलों को बदरवास के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया, जहां घायलों की हालत खतरे से बाहर बताई गई है।बदरवास थाना पुलिस के अनुसार, कोल्हापुर से मजदूरों को एक बस शिवपुरी आ रही थी। वहीं, ट्रक शिवपुरी से मजदूरों को लेकर भिण्ड जा रहा था। बस में 30 मजदूर सवार थे, जबकि ट्रक में 40 मजदूर थे। ट्रक बुधवार को सुबह बरखेड़ा के पास खड़ा हुआ था। प्रत्यक्षदर्शियों ने पुलिस को बताया कि बस चालक को नींद आ रही थी, लेकिन उसे सोने नहीं दिया गया। चालक को नींद की झपकी आई और बस सडक़ किनारे खड़े ट्रक से टकरा गई। इस हादसे में आठ मजदूर घायल हुए हैं, जिनका बदरवास के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में उपचार जारी है। पुलिस ने मामले को जांच में लिया है।

Dakhal News

Dakhal News 13 May 2020


Indore ,corona suspect ,elderly suicide , jumping ,fourth floor , hospital

इंदौर। इंदौर में कोरोना के एक संदिग्ध बुजुर्ग ने अस्पताल की चौथी मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है कि 78 वर्षीय बुजुर्ग को कोरोना के लक्षण मिलने के बाद एमटीएच अस्पताल में भर्ती किया गया था। बुधवार सुबह बुजुर्ग ने चौथी मंजिल से छलांग ला दी, जिससे उसकी मौत हो गई। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और बुजुर्ग के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू की।सेन्ट्रल कोतवाला थाना प्रभारी बीडी त्रिपाठी ने बताया कि मृतक की पहचान सत्यपाल आहूजा (78) निवासी काटजू कालोनी इंदौर के रूप में हुई है। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि 24 अप्रैल को सत्यपाल आहूजा को निमोनिया और सांस लेने की तकलीफ के चलते एमटीएच अस्पताल लाया गया था, तब ही से उनका इलाज चल रहा था। बुधवार को सुबह करीब सात बजे सत्यपाल आहूजा चौथी मंजिल से कूद गए, जिससे वह दूसरी मंजिल के पोर्च में आकर गिरे और उनकी मौके पर मौत हो गई। पुलिस फिलहाल मामले की जांच कर रही है। प्रारंभिक जांच के आधार पर बीमारी से परेशान बुजुर्ग की आत्महत्या का मामला प्रतीत हो रहा है। जांच के बाद ही मामले का खुलासा हो पाएगा।

Dakhal News

Dakhal News 13 May 2020


bhopal, affinity, nurses serve, mother and sister , Minister of Health

भोपाल। कोरोना काल में डाक्टरों के साथ साथ नर्सों की भूमिका भी बेहद अहम है। परिवार से दूर रहकर और अपनी जान जोखिम में डालकर नर्स मरीजों का इलाज कर रही हैं। किसी भी मरीज के सबसे ज्यादा करीब अस्पताल में नर्सेस होती हैं, ऐसे में उन्हें सबसे ज्यादा खतरा भी होता है। यह कहना गलत नहीं होगा कि मेडिकल सेवाओं में और मरीज के इलाज में नर्सेस की भूमिका काफी महत्वपूर्ण होती है। अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस पर स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने नर्सों को बधाई दी है।   स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस पर सभी नर्सों को बधाई देते हुए उन्हें मां और बहन का रूप बताया है। मंत्री ने कहा कि ईश्वर जहां उपस्थित नहीं हो सकता वहां अपना प्रतिरूप भेजता है। सभी नर्सेस कोरोना महामारी के समय अद्भुत कार्य कर रहीं हैं। उन्होंने कहा कि जिस आत्मीयता से नर्स मां और बहन के रूप में सेवा करती हैं, वह देवतुल्य कार्य है। कोरोना संकट के समय अद्भुत कार्य करने के लिए उनका अभिनंदन।

Dakhal News

Dakhal News 12 May 2020


chindwara, Cotton, purchased,farmers,May 13

छिंदवाड़ा। मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा जिले के संतरांचल सौसर में कपास खरीदी को लेकर व्यवस्था बनाई गई है। यहाँ अब रोजाना सौ किसानों से कपास खरीदी जाएगी। छिंदवाड़ा के सौसर तहसीलदार और कृषि उपज मंडी समिति के भारसाधक अजय शुक्ला ने सभी किसानों से अपील की है कि जब बुलाया जाए तब किसान मंडी में आए।    उन्होंने बताया कि कलेक्टर के आदेशानुसार, सौसर एसडीएम के निर्देश पर कल 13 मई से कृषि उपज मंडी में 60 कृषकों के स्थान पर प्रति दिवस 100 कृषकों से सीसीआई के द्वारा कपास खरीदी की जावेगी। प्रति दिवस 100 पंजिकृत कृषकों को अब सूचना देकर बुलाया जावेगा।    दोनो पंजीकृत जिनिंग में प्रति दिवस 50-50 कृषकों की कपास दी जावेगी। कृषकों को कोई परेशानी न हो इसलिए यह व्यवस्था की गई हैं। यदि कपास खरीदी केंद्र पर किसी भी व्यक्ति के द्वारा कोई गलत तरीके से कपास लाया जा रहा है। यदि किसी को भी इसकी प्रमाणिक जानकारी है तो वह तथ्य सहित प्रसाशन को प्रस्तुत करें कार्यवाही की जावेगी।   

Dakhal News

Dakhal News 12 May 2020


dhaar, 7 new corona patients, found , Dhar district,total 86

धार। जिले में रविवार देर रात आई रिपोर्ट के अनुसार 7 नए कोरोना पॉजीटिव पाए गए हैं। इन्हें मिलाकर जिले में पॉजीटिव रोगियों की संख्या 86 हो गई है। पॉजीटिव पाए गए लोगों में पांच कुक्षी के,  धार की पट्ठा चौपाटी निवासी युवक और बुंदेलवाड़ी क्षेत्र की महिला शामिल हैं।    रविवार रात आई रिपोर्ट में जिन लोगों को पॉजीटिव बताया गया है,  वे पहले से क्वारेंटाइन हैं। अन्य को महाजन अस्पताल के आइसोलेशन सेंटर में शिफ्ट कर दिया गया है। साथ ही पीथमपुर के जो दो बच्चे स्वस्थ हो चुके हैं, उन्हें सोमवार सुबह अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया। इस तरह अब तक जिले के कुल 41 लोग संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं।     धार के महाजन अस्पताल के आइसोलेशन सेंटर से सोमवार को जिन दो बच्चों को डिस्चार्ज किया गया है,  उनके नाम तनवीर और रेहान है तथा उम्र क्रमश: 10 और 12 साल है। दोनों बच्चों को एंबुलेंस से पीथमपुर भेज दिया गया है। जिला महामारी नियंत्रण अधिकारी डॉ. संजय भंडारी और अस्पताल स्टाफ ने बच्चों को गुलदस्ता भेंट कर विदा किया।   

Dakhal News

Dakhal News 12 May 2020


bhopal, Good news,16 areas city, left out , list of Containment Zone

भोपाल। कोरोना संकट से जूझ रहे मप्र की राजधानी भोपाल के लोगों के लिए अच्छी खबर है। शहर के 16 इलाकों को कंटेन्मेंट जोन की सूची से हटा दिया गया हैं। यहां पिछले 21 दिनों से कोई भी कोरोना पॉजिटिव मरीज नहीं मिलने के बाद यह निर्णय लिया गया है। दरअसल इन सभी 16 इलाकों में कोरोना संक्रमण के मामले सामने आने के बाद इन्हें कंटेन्मेंट जोन में शामिल किया गया था।   राजधानी भोपाल के जिन इलाकों को कंटेन्मेंट जोन की सूची से बाहर किया गया है। उनमें ऋषि नगर, साकेत नगर, बागसेवनिया, अलकापुरी, अयोध्या नगर, शाहपुरा, अवधपुरी थाने के पास, निशातपुरा थाना के पास सहित 16 इलाके शामिल है। उल्लेखनीय है कि भोपाल में अब तक कोरोना मरीजों की संख्या 705 तक पहुंच गई है। वहीं पूरे मप्र में 3544 कोरोना संक्रमित है जबकि 213 लोग इस संक्रमण के चलते अपनी जान गवां चुके है।   

Dakhal News

Dakhal News 10 May 2020


jabalpur, Coupling,Shramik special train, broken ,big accident

जबलपुर, 10 मई (हि.स.)। मध्य प्रदेश के जबलपुर जिले में रविवार सुबह एक बड़ा रेल हादसा टल गया। यहां मजदूरों को लेकर जा रही स्पेशल ट्रेन की कपलिंग अचानक टूट गई। चलती ट्रेन की कपलिंग टूटने की जानकारी जैसे ही लोको पायलट को लगी, उसने तुरंत इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन को रोका।  यह हादसा शहपुरा भिटोनी स्टेशन के गेट नंबर 300 के पास हुआ। इसके बाद किसी तरह कपलिंग को जोडक़र ट्रेन को भिटोनी स्टेशन तक लाया गया। यहां से श्रमिक एक्सप्रेस का सुधार कार्य कर गाड़ी को आगे रवाना किया गया।    जानकारी अनुसार प्रवासी मजदूरों को लेकर श्रमिक स्पेशल ट्रेन सूरत से इलाहाबाद जा रही थी। इस दौरान जब ट्रेन जबलपुर की टेढ़ चौकी गेट नंबर 300 के पास पहुँची तभी अचानक कपलिंग टूट गई। कपलिंग टूटने से इंजन के पीछे के तीन डिब्बे लेकर इंजन आगे बढ़ गया। गनीमत रही कि इस दौरान ट्रेन की स्पीड ज्यादा नही थी और पायलट ने तुरंत ही एमरजेंसी ब्रेक लगा लिया, जिससे कोई कोई बड़ा हादसा नही हुआ। टूटी हुई कपलिंग को जोडक़र किसी तरह ट्रेन को शहपुरा भिटौनी रेल्वे स्टेशन तक लाया गया। भिटौनी स्टेशन में लाकर कपलिंग जोड़ी गई तब जाकर गाड़ी आगे बढ़ी। ट्रेन में सवार मजदूरों का कहना है कि कल शाम को यह ट्रेन मजदूरों को लेकर इलाहाबाद के लिए रवाना हुई थी तभी रास्ते में ये हादसा हो गया। ट्रेन को जैसे तैसे भिटौनी स्टेशन लाया गया जहाँ तीन घंटे सुधार कार्य करने के बाद ट्रेन को रवाना किया गया। 

Dakhal News

Dakhal News 10 May 2020


bhopal, Good news, amid increasing infection, recovery rate, reached 57 percent

भोपाल। राजधानी भोपाल में कोरोना का संक्रमण बढ़ता जा रहा है। जहांगीराबाद और मंगलवारा क्षेत्रों में शुक्रवार को भी पॉजीटिव मरीज पाए गए हैं। इसी बीच एक अच्छी खबर आई है कि राजधानी भोपाल में कोरोना के मरीजों का रिकवरी रेट 57 फीसदी पर पहुंच गया है। यानी अब तक जितने मरीज संक्रमित हुए हैं, उनमें से आधे से अधिक स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं।    राजधानी भोपाल में गुरुवार शाम को आई रिपोर्ट के बाद कोरोना पॉजीटिव रोगियों की संख्या 379 पर पहुंच गई है। पुराने भोपाल शहर के हॉटस्पॉट क्षेत्रों में नए मरीज भी मिले हैं। लेकिन अच्छी खबर यह है कि गुरुवार को डिस्चार्ज हुए मरीजों को मिलाकर 399 मरीज अब तक ठीक होकर घर जा चुके हैं। ऐसा भी नहीं है कि जो मरीज स्वस्थ हो रहे हैं, वे सभी युवा हैं। गुरुवार को स्वस्थ होने वाले मरीजों में 09 महीने के बच्चे से लेकर 70 वर्षीय वृद्धा तक शामिल हैं। स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या के अनुसार भोपाल में रिकवरी रेट 57 फीसदी पर पहुंच गया है, जो काफी अच्छा है।    नवाचारों से मिल रही सफलताभोपाल में रिकवरी रेट अन्य शहरों की तुलना में अच्छा होने की एक वजह यह भी है कि यहां कोरोना संक्रमित मरीजों के उपचार में काफी नवाचार किए जा रहे हैं। भोपाल में प्लाज्मा थैरेपी की शुरुआत कर दी गई है, जिसके अच्छे परिणाम मिल रहे हैं। इधर, एम्स में जिस इम्यूनिटी मॉड्यूलेटर दवा माइक्रोबैक्टीरियम डब्लू की ट्रायल की गई थी, उसके भी अच्छे परिणाम सामने आए हैं।    एम्स के डायरेक्टर डॉ. सरमनसिंह के अनुसार जिन दो रोगियों को इस दवा के डोज दिए गए, उनके स्वास्थ्य में तेजी से सुधार आया है और अब वे आईसीयू से बाहर हैं। वहीं, चिरायु हॉस्पिटल एंड मेडिकल कॉलेज के डॉ. अजय गोयनका अच्छे रिकवरी रेट का श्रेय अर्ली ऑक्सीजन थैरेपी को देते हैं। उनका कहना है कि भोपाल में अर्ली ऑक्सीजन थैरेपी के चमत्कारिक परिणाम मिले हैं। इस थैरेपी में मरीजों के गले और लंग्स में ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ाई जाती है, जिससे वायरस की कार्यप्रणाली थम जाती है। डॉ. गोयनका के अनुसार भोपाल में रिकवरी बढ़ाने में इस थैरेपी की भूमिका अहम है।

Dakhal News

Dakhal News 8 May 2020


bhopal, Rain,next week ,many districts ,MP , relief from hot heat

भोपाल। आने वाले सप्ताह में मध्य प्रदेश को तपती गर्मी से थोड़ी राहत मिल सकती है।  मौसम वैज्ञानिकों ने राज्य के मौसम को लेकर संभावनाएं जताई है कि आने वाले सप्ताह में सूबे के कई जिलों में बारिश हो सकती है। वहीं कई जिलों में गरज-चमक के साथ बौछारें या तेज हवा चलने की वैज्ञानिकों ने संभावनाएं जताई हैं। मौसम विभाग का अनुमान है कि कई जिलों का पारा थोड़ा गिर सकता है, लेकिन जिन इलाकों में बारिश नहीं होगी वहां गर्मी अपने तेवर दिखाती रहेगी। मौजूदा स्थिती में प्रदेश के ज्यादातर जिलों का पारा 40 डिग्री के पार पहुंच चुका है।   मध्य प्रदेश के ग्वालियर संभाग में गर्मी चरम पर है। यहां का तापमान अन्य जिलों के मुकाबले बढ़ा हुआ है। प्रदेश में सबसे ज्यादा तापमान खरगोन में दर्ज किया गया। खरगोन में मई की शुरूआत में ही पारा 44 डिग्री पहुंच गया है। राजधानी भोपाल का तापमान भी 40.2 डिग्री दर्ज किया गया है। मौसम विभाग ने आशंका जताई है कि आने वाले दिनों में खरगोन में पारा और अधिक बढ़ सकता है। मध्य प्रदेश में पिछले 24 घंटों के दौरान रीवा, सागर, जबलपुर, शहडोल, भोपाल, उज्जैन, होशंगाबाद, ग्वालियर और चंबल संभागों के जिलों में कहीं-कहीं हल्की बारिश दर्ज की गई और इंदौर संभाग के जिलों का मौसम शुष्क रहा है। जबकि कोलारस में एक सेमी बारिश दर्ज की गई।   मौसम विभाग का अनुमान वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक उदय सरवटे ने जानकारी देते हुए बताया कि बंगाल की खाड़ी से नमी का जमाव और ऊपरी वायुमंडलीय परिस्थितियां अनुकूल होने के कारण अगले 2 से 3 दिनों के दौरान पूर्वोत्तर भारत और पूर्वी भारत में अधिकांश स्थानों पर बारिश होने के आसार नजर आ रहे हैं। आने वाले 24 घन्टों के दौरान पश्चिम हवाओं और नम पूर्वी हवाओं के बीच संगम क्षेत्र के कारण पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र और उत्तर-पश्चिम के निकटवर्ती मैदानों में कुछ स्थानों पर बौछारों के साथ चमक पडऩे की संभावनाएं बन रही हैं।   मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक चंबल संभाग के जिलों में तथा उमरिया, नरसिंहपुर, सिवनी, बालाघाट, छतरपुर, टीकमगढ़, शिवपुरी, ग्वालियर और दतिया जिलों में कहीं-कहीं बारिश होगी. इसके अलावा कुछ जिलों में गरज-चमक के साथ बौछारें भी पड़ सकती हैं. इन इलाकों में से कुछ स्थानों पर ओले गिरने की भी संभावना से इनकार नहीं किया गया है. मौसम विभाग का यह पूर्वानुमान 8 मई तक के लिए है.   यहां बदलेगा मौसम मौसम केन्द्र भोपाल के कुछ जिलों के लिए यलो अलर्ट जारी किया है। केन्द्र का अनुमान है कि प्रदेश के लगभग 15 जिलों में गरज-चमक के साथ तेज हवा चल सकती है। हवा की रफ्तार भी 40 किलोमीटर प्रति घंटे तक हो सकती है। जिन इलाकों में गरज-चमक के साथ तेज हवा चलेगी उनमें चंबल संभाग के जिलों के साथ उमरिया, नरसिंहपुर, सिवनी, बालाघाट, छतरपुर, टीकमगढ़, शिवपुरी, ग्वालियर और दतिया शामिल हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 8 May 2020


bhopal, Special train,buses ,reached Vidisha , 1200 laborers, Kerala

भोपाल/विदिशा। लॉकडाउन के चलते केरल में फंसे मजदूरों को लेकर एक श्रमिक स्पेशल ट्रेन शुक्रवार को सुबह विदिशा स्टेशन पहुंची। इस ट्रेन में प्रदेश के 32 जिलों के करीब 1200 मजदूर सवार थे। सभी मजदूरों की स्वास्थ्य जांच एवं स्क्रीनिंग के बाद उन्हें बसों के माध्यम से अपने घरों की ओर रवाना किया।दरअसल, लॉकडाउन के चलते दूसरे राज्यों में फंसे मजदूरों को विशेष ट्रेनों से उनके गृह पहुंचाया जा रहा है। इसी के चलते केरल में फंसे मध्यप्रदेश के 1200 मजदूरों को लेकर एक श्रमिक स्पेशल ट्रेन शुक्रवार को सुबह विदिशा स्टेशन पहुंची। यह सभी मजदूर प्रदेश के 32 जिलों के रहने वाले बताए गए हैं। कोरोना के चलते प्रशासन ने सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए। एक-एक बोगी से उतारकर पहले उनकी स्क्रीनिंग की गई, फिर उन्हें बस में बैठाकर अलग-अलग जिलों के लिए रवाना किया गया। पहली बस श्योपुर के लिए रवाना हुई। यात्रियों ने इस ट्रेन में किसी तरह का कोई किराया नहीं लेने की बात की है। यात्रियों ने वापसी के लिए प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान का आभार व्यक्त किया है।

Dakhal News

Dakhal News 8 May 2020


mandsour, Complete ,12 new cases , corona positive, district

मंदसौर। जिले में बुधवार की रात को फिर से कोरोना का विस्फोट हुआ जिसमें एक साथ 12 लोागों को कोरोना पॉजीटिव पाया गया है। मिली जानकारी के अनुसार 70 सेम्पल कि रिपोर्ट प्राप्त हुई, जिसमें से 12 पॉजिटिव,1 प्रिजेटिंव मामला सामने आया । पॉजीटिव लोगों में से  8 गुदरी, 3 अशोकनगर,1 छीपा बाखल और 1 प्रिजेटिंव छीपा बाखल के निवासी हैं। ऐसी स्थिति में अब जिले मे कोरोना पाजिटिव मरीजो का आंकड़ा बढ़कर 52 हो गया है।    सभी नये कोरोना पॉजीटिव पूर्व से कोरोना कंट्रोल सेन्टर में भर्ती है। इसलिए घबराने की बहुत ज्यादा आवश्यकता नहीं है। वहीं एक अच्छी खबर यह हैं कि मंदसौर की एक विक्षिप्त महिला जो मंदसौर के महिला गृह में रहती थी, उसे कोरोना पॉजीटिव पाया गया था। महिला को उपचार के लिए प्रशासन ने इंदौर रैफर किया था। बुधवार को उक्त महिला की दूसरी रिपोर्ट भी नेगेटिव प्राप्त हो गई है। महिला को जल्द मंदसौर लाया जायेगा। अब सिर्फ 15 सेम्पलों की रिपोर्ट आना शेष है। हालांकि बाजार खुलने का समय यथावत रखा गया।    सर्कूलर बनाकर मंदसौर की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने का प्रयास  बुधवार को मंदसौर की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए प्रशासन ने मंदसौर शहर के लिए एक सर्कुलर जारी किया। जिसके अंतर्गत सप्ताह में प्रत्येक दुकानदार के लिए दिन और समय तय किया गया है। बुधवार को जारी आदेश के अनुसार  किराना सेव नमकीन की दुकान  सुबह 6 से 11 बजे तक प्रतिदिन रविवार छोड़ कर , दूध सुबह 6 से 10 , शाम 6 से 10 प्रतिदिन , सब्जी- फल सुबह 6 से 11 प्रतिदिन रविवार छोड़कर, स्टेशनरी व चश्मे मंगलवार, गुरुवार सुबह 11 से 5, इलैक्ट्रिक सामान शाम 8 से 11 सोमवार , बुधवार ,शुक्रवार (होम डिलेवरी), कृषि सबंधित सामान दोपहर 12 से 5 बजे तक प्रतिदिन रविवार छोड़कर, सीमेंट , सरिया ,हार्डवेअर सुबह 6 से 11 मंगलवार, गुरुवार, शनिवार (होम डिलेवरी), आटा चक्की , पानी प्रतिदिन सुबह  6 से 11 राज्य व केंद्र शासन द्वारा सुरक्षा संबंधित सभी आदेश का पालन करना होगा । आदेश के अनुसार 2 पहिया वाहन का प्रयोग प्रतिबंधित रहेगा। गारमेंट, मिठाई व बचे अन्य दुकानदारों के लिए अलग से आदेश आएंगे।  

Dakhal News

Dakhal News 7 May 2020


sheopur, Kamal Nath, demands destructionfire in Hullpur village

श्योपुर।  मध्यप्रदेश के श्योपुर जिले में बुधवार देर शाम खेत में नरवाई जलाने से भडक़ी आग ने हुल्लपुर गांव में भीषण तबाही मचा दी। नरवाई से भडक़ी आग ने कई घरों को अपनी चपेट में ले लिया। वहीं इस आग में कई मवेशियों की जलकर मौत हो गई। आगजनी से मची अफरा-तफरी में 7 से 8 लोग झुलसे हैं, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूचना के बाद मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पाने का प्रयास शुरू किया। देर रात आग पर काबू पाया जा सका।   जानकारी अनुसार विजयपुर थाना क्षेत्र के हुल्लपुर गांव में किसी किसान ने अपने खेत की नरवाई में आग लगाई। इस दौरान तेज हवा चलने से जल रही नरवाई के तिनके हवा के साथ गांव में भूसे के ढेरों तक पहुंची और यहाँ से गाँव में पहुंच गई। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया और पूरे गांव में फैल गई। घरों में आग लगा देख ग्रामीणों में भगदड़ मच गई। ग्रामीणों ने प्रशासनिक अमले को इसकी सूचना दी गई। सूचना के बाद तुरंत प्रशासनिक अमला मौके पर पहुंचा। आग पर काबू पाने के लिए प्रशासनिक अमले ने शिवपुरी, मुरैना ओर श्योपुर से फायर ब्रिगेड को बुलाया। लेकिन तब तक आग ने विकराल रुप ले लिया था। इस आग से लगभग 35 घरों को नुकसान पहुंचा है। घरों में रखा किसानों को घरेलू सामान, अनाज नगदी और जेवरात जल गए हैं। कई स्थानों पर बंधे मवेशी भी भाग नही पाए और जलकर मर गए। घर के बाहर कटी रखी गेहूं की फसल- अनाज जलकर राख हो गया। फायर बिग्रेड ने देर रात कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। गुरुवार सुबह तक थोड़ी आग को बुझाया गया।    कमलनाथ ने की मुआवजे की मांग   नरवाई जलाने से हुल्लपुर गांव में हुई आगजनी की घटना पर मप्र के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने दुख जताते हुए सरकार से मुआवजे की मांग की है। कमलनाथ ने गुरुवार सुबह ट्वीट कर लिखा ‘श्योपुर जिले के हुल्लपुर गाँव मे आग से गऱीबों के 20 से ज्यादा घर जलने, 5 मवेशी जिंदा जलने और गृहस्थी का सामान जलने की खबर दुखद है। सरकार तत्काल राहत कार्य प्रारंभ कर प्रभावितों के रूकने एवं भोजन-पानी की अंतरिम व्यवस्था करे और नुक़सान का अविलंब आकलन कर मुआवजा राशि प्रदान करे।  

Dakhal News

Dakhal News 7 May 2020


bhopal, Changes, weather patterns, MP western disturbance

भोपाल। मध्यप्रदेश में पश्चिम विक्षोभ के चलते मौसम का मिजाज इस बार कुछ बदला हुआ सा है। मई का महीना शुरू होने के बाद भी अभी गर्मी ने अपना पूरा असर नहीं दिखाया है। पिछले पांच साल की तुलना में इस बार अप्रैल माह ठंडा बीता है। उधर मई माह की शुरुआत में अभी तक शहर में अपेक्षाकृत गर्मी नहीं पड़ी है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक लगातार बन रहे वेदर सिस्टम के कारण प्रदेश में रुक-रुक कर बरसात हो रही है। इससे दिन के अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी नहीं हो पा रही है। मौसम विज्ञानियों ने आगामी 48 घंटों के दौरान फिर बूंदाबांदी होने की संभावना जताई है।   राजधानी भोपाल समेत प्रदेश के कई इलाकों में बुधवार की रात गरज-चमक के साथ बूंदाबांदी हुई। हालांकि, गुरुवार को सुबह से मौसम साफ है और तेज धूप खिली हुई है, लेकिन तेज हवा चलने से फिजा में ठंडक घुली हुई है। इधर, वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि इस वर्ष पश्चिमी विक्षोभ के आने का सिलसिला जारी है। पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर भारत में पहुंचते ही मप्र और आसपास ऊपरी हवा का चक्रवात, द्रोणिका लाइन (ट्रफ) बन जाता है। इससे वातावरण में नमी बढ़ती और गरज-चमक के साथ बौछारें पडऩे लगती हैं। इससे दिन के तापमान अपेक्षाकृत बढ़ोतरी नहीं हो पा रही है।   दो सिस्टम सक्रिय अजय शुक्ला के मुताबिक वर्तमान में पूर्वी मप्र पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। इसके अतिरिक्त बिहार से पूर्वी मप्र से होकर तमिलनाडू तक एक ट्रफ बना हुआ है। इन दो सिस्टम के कारण वातावरण में नमी आ रही है। इससे प्रदेश में पिछले दो दिन से कहीं-कहीं गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ रही हैं। इस वजह से राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश स्थानों पर दिन के तापमान में कमी आई है। शुक्ला के अनुसार गुरुवार से फिर बादल छाने लगेंगे। साथ ही बूंदाबांदी भी हो सकती है।  

Dakhal News

Dakhal News 7 May 2020


ujjain, khandwa, 11 cases,Corona , three new cases

उज्जैन/खंडवा। मध्यप्रदेश में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। मंगलवार को उज्जैन में 11 और खंडवा में तीन नये मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही उज्जैन में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 184 और खंडवा में 50 हो गई है।उज्जैन सीएमएचओ कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक, मंगलवार को प्राप्त हुई रिपोर्ट में 11 नये कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि हुई है, जबकि पिछले 24 घंटों के दौरान पांच लोगों की इस महामारी से मौत हुई है। इस प्रकार शहर में अब तक कोरोना से 40 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढक़र 184 हो गई है। उन्होंने बताया कि अब तक जिले में 3628 लोगों के सेम्पल जांच के लिए भेजे गए हैं, जिनमें से 3331 सेम्पलों की रिपोर्ट प्राप्त हो गई है। इनमें 184 पॉजिटिव और शेष रिपोर्ट निगेटिव आई हैं। इसी तरह खंडवा में मंगलवार को तीन नये कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। ये तीनों मरीज शहर के सिंधी कॉलोनी, गंज बाजार और एक घासपुरा क्षेत्र से हैं। इन क्षेत्रों को सील कर दिया गया है। नये तीन मरीज मिलने के बाद जिले में कोरोना मरीजों की कुल संख्या 50 हो गई है, जबकि इस महामारी से जिले में सात लोगों की मौत हो चुकी है। 

Dakhal News

Dakhal News 5 May 2020


bhind, Former Bandit Emperor, Mohar Singh Gurjar ,died , age of 92

भिंड। पूर्व दस्यु सम्राट मोहर सिंह गुर्जर का मंगलवार सुबह निधन हो गया। 92 वर्षीय मोहर सिंह दद्दा, मेहगांव में पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष रह चुके है और लंबे समय से बीमार चल रहे थे। मंगलवार सुबह करीब 9 बजे उन्होंने अपने घर पर अंतिम सांस ली। डकैत मोहर सिंह गुर्जर पर 60 के दशक में 2 लाख का ईनाम घोषित था। उनके ऊपर पुलिस रिकॉर्ड में 315 अपराध दर्ज थे, जिसमें 85 मामलों में वे हत्याओं के आरोपी थे। हालांकि सभी मामलों में वे बरी हो गए थे। बागी रहते हुए मोहर सिंह ने कई लोगों की मदद की। अपराध की दुनिया छोडऩे के बाद वो गरीबों की मदद और गरीब कन्याओं की शादी कराने के लिए प्रसिद्ध हुए थे।    चंबल में पचास के दशक में जैसे बागियों की एक पूरी बाढ़ आई थी। मानसिंह के बाद चंबल घाटी का सबसे बड़ा नाम मोहर सिंह का था। मोहर सिंह के पास डेढ़ सौ से ज्यादा डाकू थे। साठ के दशक में उसका ऐसा आतंक फैल चुका था कि लोग कहने लगे थे कि चंबल में मोहर सिंह की बंदूक ही फैसला थी और मोहर सिंह की आवाज ही चंबल का कानून।   

Dakhal News

Dakhal News 5 May 2020


Ujjain ,newcomer , charge, peak of Mahakal

उज्जैन। जिले के नवागत कलेक्टर आशीष सिंह ने मंगलवार को बाबा महाकाल के शिखर दर्शन करने के बाद पदभार संभाल लिया। पदभार संभालते ही मेला क्षेत्र में संभागायुक्त की मौजूदगी में अधिकारियों के साथ बैठक कर जिले के हालात को समझा। इस दौरान कलेक्टर ने अधिकारियों से कहा कि यह लड़ाई लंबी है, हमें इससे धैर्यपूर्वक लड़ना है। ऐसे सेवा के अवसर प्रत्येक व्यक्ति के जीवन में एक- दो बार ही आते हैं। इसलिए हमें सेवाभाव के साथ जनहितैषी कार्य को आगे बढ़ाना है।    राज्य शासन ने सोमवार को उज्जैन के कलेक्टर शशांक मिश्र को हटाकर इंदौर नगर निगम के आयुक्त आशीष सिंह को उनके स्थान पर पदस्थ किया था। आशीष सिंह पहले यहां निगम आयुक्त रह चुके हैं। मिश्र की नई पदस्थापना शासन ने अपर सचिव के रूप में की है। मिश्र के हटाए जाने के पीछे उज्जैन में बढ़ते कोरोना मरीज और लगातार हो रही मौत को कारण माना जा रहा है। अस्पताल की अव्यवस्थाओं को लेकर मुख्यमंत्री पहले दो बार चेतावनी दे चुके थे। इसके अलावा आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज की अव्यवस्थाएं भी उन पर भारी पड़ी हैं। वहां से रोगियों द्वारा लगातार शिकायतें की जाने के बावजूद प्रशासनिक स्तर पर वे ज्यादा सुधार नहीं करवा पाए।   सांसद, विधायक, महापौर और संघ के नेताओं ने लगाए फोनकोरोना की रोकथाम से जुड़ी अव्यवस्थाओं को लेकर कई दिनों से सवाल खड़े हो रहे थे। रविवार को भाजपा पार्षद मुजफ्फर हुसैन की भी मौत हो गई। इसके बाद भाजपाइयों ने प्रशासनिक फेरबदल की रणनीति बना ली। सांसद अनिल फिरोजिया, विधायक पारस जैन, डॉ. मोहन यादव, महापौर मीना जोनवाल, नगराध्यक्ष विवेक जोशी के अलावा संघ से जुड़े प्रदीप पांडे व सुरेश गिरि ने भोपाल में लगातार बात की। सोशल मीडिया पर हो रहे तरह-तरह के कमेंट्स के बारे में अवगत करवाया। विधायक जैन ने सीएम से चर्चा की। स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैस को आशीष सिंह का नाम सुझाया था।    प्रतिभा इंदौर की निगमायुक्तश्योपुर कलेक्टर प्रतिभा पाल को आशीष सिंह की जगह इंदौर निगमायुक्त का जिम्मा सौंपा गया है। वे इंदौर की पहली महिला निगमायुक्त होंगी। प्रतिभा इंदौर में जिला पंचायत सीईओ भी रह चुकी हैं। उन्होंने कहा कि यह संकट का समय है लेकिन मुझे लगता है कि इससे हम जीत जाएंगे।

Dakhal News

Dakhal News 5 May 2020


burhanpur, student class VI ,made sanitizer ,machine , waste toys

बुरहानपुर। कहा जाता है कि आवश्यकता ही आविष्कार की जननी है। कोरोना संकट के समय लोग नये-नये आविष्कार कर रहे हैं। ऐसे ही बुरहानपुर में एक नन्हें बालक ने वेस्ट खिलौने से सैनिटाइजर मशीन बना दी। इसके साथ ही उसने प्राकृतिक सैनिटाइजर भी बनाया है। इस बालक का नाम योगेश पुत्र अभय सिंह है और वह ग्राम नावरा के सरकारी स्कूल में कक्षा छठवीं में पड़ता है।देशव्यापी लॉकडाउन के चलते अभी सारे विद्यालय बंद है। ऐसे में नावरा के शासकीय माध्यमिक स्कूल के छात्र योगेश ने अपने समय को बचाते हुए खिलौने के वेस्ट मटेरियल से सैनिटाइजर मशीन एवं प्राकृतिक उत्पाद से सैनिटाइजर बनाया है। यह सैनिटाइजर प्राकृतिक नीम, तुलसी, ऐलोविरा एवं कपूर से मिलकर बनाया है। इस कार्य में योगेश की शिक्षिका मनीषा पाल ने मदद की। यह नन्हा बालक अब लोगों को सैनिटाइजर का उपयोग करने के लिए प्रेरित कर रहा है। योगेश ने बताया कि समय के महत्व को पहचाना चाहिए। कैसी भी परिस्थिति हो, हमें कुछ न कुछ प्रयोग करते ही रहना चाहिए। 

Dakhal News

Dakhal News 3 May 2020


bhopal, Doctors are taking, their responsibility, away from family, children

भोपाल। किसी को बचाना और उसके जीवन को नया सहारा देना डॉक्टरों का काम है, लेकिन इस विषम परिस्थिति, संकटकाल में कोरोना संक्रमण से प्रदेश को मुक्त करने के लिए डॉक्टर ऐसे मरीजों का उपचार कर रहे हैं, जो कोरोना से संक्रमित हैं। वे अपनी जान और अपने परिवार की परवाह किए बिना निरंतर अपनी सेवाएं दे रहे हैं। इस कठिन समय में भी डॉक्टर्स सुबह से रात्रि तक पूरी निष्ठा और ईमानदारी व साकारात्मक सोच के कोरोना संक्रमण से आम नागरिकों को बचाने में जुटे हुए हैं।प्रदेश में यह डॉक्टर्स अपनी सेवाओं से प्रीतिदिन नये आयाम, सुखद समाचार और इस जंग में नायाब उदाहरण प्रस्तुत कर रहे हैं। भोपाल के जयप्रकाश चिकित्सालय में भी डॉ. केके अग्रवाल, सचिन नायक, आनंद महाजन, सचिन पाटीदार और अजीत सिंह जैसे डॉक्टर बिना छुट्टी लिए निरंतर कोरोना पीडि़त मरीजों का उपचार और उनकी जांच करते हुए संवेदनशील क्षेत्रों में जाकर कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की पहचान कर रहे हैं। डॉक्टर केके अग्रवाल ने बताया कि वे कोरोना पीडि़त मरीजों की जांच से लेकर उनका उपचार करते हैं और बिना छुट्टी लिए निरंतर अपनी सेवाएं दे रहे हैं। अपने परिवार और बच्चों से दूर रहकर निरंतर कार्य कर रहे हैं। इसी तरह अन्य डॉक्टर्स भी अपनी जिम्मेदारी और फर्ज से इस कोरोना को हराने संकल्प लिए हुए हैं। वे बताते हैं कि हम सबने ठाना है की किसी भी परिस्थिति में भी हम कोरोना से पीडि़त अंतिम व्यक्ति तक का इलाज जारी रखेंगे। जब तक यह संक्रमण पूरी तरह खत्म नहीं हो जाता।उनकी की टीम ने सभी शहरवासियों से यह अनुरोध भी किया है कि वे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन तो अनिवार्य रूप से करें साथ ही अपने घरों में रहते हुए अपने परिवार का पूरा ख्याल रखें। उन्होंने कहा कि शासन प्रशासन आपकी सहायता के लिए तत्पर तो हैं ही स्वास्थ्य दल भी निरंतर आपकी सेवा में जुटा हुआ है। डॉ. अग्रवाल ने बताया कि हम 1000 से 1500 कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के टेस्ट या जांच प्रतिदिन करते हैं। यह सर्वस्व बलिदान है जो परिवार से दूर रहकर भी दूसरों के जीवन को कृतार्थ कर रहे हैं। यह नैतिक मूल्यों और अपने दायित्वों का निर्वहन है जो इस आपदा के समय निष्ठा और कार्य की पराकाष्ठा से ऊपर उठकर समाज सेवा कर रहे हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 1 May 2020


bhopal, 700 policemen, given face shield , save  corona

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना की चपेट में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों के साथ-साथ पुलिसकर्मी भी आ गए हैं, लेकिन अब पुलिस की सुरक्षा के लिए पुख्ता इंतजाम किये जा रहे हैं। यहां संक्रमण कोरोना के बढ़ते संक्रमण और पुलिसकर्मियों की सुरक्षा को देखते हुए भोपाल जोन के एडीजी उपेंद्र जैन और डीआईजी शहर इरशाद वली के निर्देशन में शहर के विभिन्न स्थानों पर ड्यूटी कर रहे 700 से अधिक पुलिसकर्मियों को फेस शील्ड दिये गये हैं।डीआईजी इरशाद वली ने शुक्रवार को बताया कि पुलिसकर्मी लॉकडाउन का सख्ती पालन कराने के लिए जगह-जगह बनाये गए चैकिंग पाइंट्स पर लोगों की जांच कर रहे हैं। ऐसे में वे खुद कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं। चैकिंग और पेट्रोलिंग के दौरान अगर किसी संक्रमित व्यक्ति से पुलिस का सीधा संपर्क होता है तो फेस शील्ड से काफी हद तक संक्रमण से बचाव किया जा सकता है, साथ ही वायरस को फैलने से रोका सा सकेगा। उन्होंने बताया कि आगामी दिनों में भोपाल पुलिस द्वारा अधिक से अधिक तैनात पुलिस कर्मियों को फेस शील्ड उपलब्ध कराई जाएगी, ताकि कोरोना संक्रमण के साथ साथ धूल, धुंआ आदि से भी बचाव किया जा सके। 

Dakhal News

Dakhal News 1 May 2020


Indore, 28 new corona positives found, number of infected crossed 1500

इंदौर। जिले में कोरोना संक्रमितों के आंकड़े में लगातार वृद्धि हो रही है। गुरुवार देर रात आई रिपोर्ट में 28 और लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। इन्हें मिलाकर जिले में अब तक 1513 लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। वहीं, 72 लोगों की मौत हो चुकी है।इंदौर जिले के गुरुवार को 285 सैंपल की जांच की गई, जिनमें से 257 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई। जिले में 4 कोरोना संक्रमितों ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। इन्हें मिलाकर मृतकों की संख्या 7ज2 पर पहुंच गई है। अब तक जिन लोगों की मौत जिले में हुई है,  उन 72 में से 45 मरीज ऐसे थे, जिन्हें पहले से शुगर, ब्लड प्रेशर सहित अन्य कई बीमारियां थीं। मृतकों में 40 मरीजों की उम्र 50 से 70 साल के बीच थी। इन लोगों के लिए कोरोना वायरस जानलेवा क्यों साबित हुआ, इसके लिए एमजीएम मेडिकल कॉलेज डेथ ऑडिट करवा रहा है। इन मृतकों के सैंपल नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी पुणे भेजे जाएंगे।क्वारेंटाइन सेंटर से भागा मरीजशहर के वाटर लिली क्वारैंटाइन सेंटर से गुरुवार रात करीब 8 बजे एक संदिग्ध मरीज भाग निकला। सुनेश पाहुजा नामक इस मरीज को हफ्तेभर पहले ही यहां लाया गया था। सीएमएचओ डॉ. प्रवीण जडिया ने बताया कि अभी तक पाहुजा की रिपोर्ट नहीं आई है। उसकी तलाश की जा रही है। इंदौर जिले में विभिन्न टीमों ने गुरुवार को 550 सैंपल लिए, जो हर दिन के औसत सैंपल से ज्यादा हैं। अब तक 7926 सैंपलों की रिपोर्ट आ चुकी है। जिनमें से 1513 लोग संक्रमित पाए गए हैं। इनमें से जहां 187 लोग ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। वहीं, 1254 लोगों का इलाज जारी है। अब तक 1213 लोगों को क्वारैंटाइन हाउस से घर भेजा जा चुका है।

Dakhal News

Dakhal News 1 May 2020


khargon,three thousand laborers,return home, second phase

खरगोन। लॉकडाउन के कारण जिले में फंसे अन्य राज्यों तथा अन्य जिलों के मजदूरों के घर लौटने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। पहले चरण में जिले से ऐसे 1952 मजदूरों को घर भेजा चुका है। वहीं, अब दूसरे चरण की तैयारी शुरू हो गई है जिसमें तीन हजार से अधिक मजदूरों को उनके घर भेजा जाएगा।    मप्र शासन ने लॉकडाउन और कर्फ्यू के चलते विभिन्न जिलों में फंसे हजारों मजदूरों को अपने-अपने  घर भेजने का निर्णय लिया है। इसी निर्णय के अनुसार रविवार तक जिले से 1952 मजदूरों को उनके घर भेजा जा चुका है। अब दूसरे चरण में ऐसे मजदूरों का डेटाबेस तैयार कर घर भेजने की तैयारी कर ली गई है। जिला पंचायत सीईओ डीएस रणदा ने बताया कि शासन द्वारा निर्धारित प्रकिया के अनुरूप संबंधित राज्य की सीमा तक मजदूरों को भेजा जा रहा है। मजदूरों का डेटा तैयार कर लिया गया है। शनिवार को प्रदेश के विभिन्न जिलों के 1952 मजदूरों को भेजा जा चुका है। अन्य राज्यों के मजदूरों को भी भेजने की पूर्ण तैयारी हो चुकी है।    जिले में हैं अन्य राज्यों के 3284 मजदूर  खरगोन में अन्य राज्यों के 3284 मजदूर हैं। शासन के निर्देशानुसार मजदूरों का डेटा तैयार किया गया है। विभिन्न माध्यमों से तैयार डेटाबेस के अनुसार खरगोन में गुजरात के 1907, महाराष्ट्र के 1209, उत्तरप्रदेश के 4, आंध्रप्रदेश के 7, तेलंगाना के 26, उड़ीसा के 4, तमिलनाडु के 14, केरल के 11, दिल्ली के 10, कर्नाटक के 41, राजस्थान के 15, चेन्नई के 14, पश्चिम बंगाल के 6, पंजाब के 4, बिहार के 2 और जम्मू के 1 मजदूर फंसे हुए हैं। जिला पंचायत सीईओ रणदा ने बताया कि आने-जाने वाले सभी मजदूरों की राज्य की सीमा पर स्क्रीनिंग की जाएगी। उसके बाद 14 दिनों के होम कोरेनटाईन में रखा जाएगा।    गुजरात से लाए जाएंगे जिले के मजदूर जिपं सीईओ रणदा ने बताया कि राज्य शासन द्वारा गुजरात में बड़ी संख्या में मौजूद जिले के मजदूरों को लाने के निर्देश प्राप्त हुए हैं। अन्य राज्यों के मजदूरों को लाने की प्रकिया चल रही है। गुजरात के अलावा अन्य राज्यो के मजदूरों का डेटाबेस के आधार पर लाने की कार्यवाही शासन द्वारा तय गाइडलाइन के अनुसार की जाएगी। उन्होंने बताया कि सोमवार को गुजरात में फंसे जिले के 1907 मजदूरों को लाने के लिए 32 बसें रवाना होंगी। 

Dakhal News

Dakhal News 27 April 2020


raisen, First case ,corona revealed , Mandideep, student ,came out positive

रायसेन। रायसेन जिले के औद्योगिक क्षेत्र मंडीदीप में भी कोरोना ने दस्तक दे दी है। यहां इंदौर से आई छात्रा कोरोना पॉजिटिव निकली है। छात्रा मंडीदीप स्थित शीतल टाउन में रहती है और 21 मार्च को इंदौर से मंडीदीप आई थी। 24 अप्रैल को अचानक छात्रा की तबीयत बिगड़ी थी। भोपाल के चिरायु हॉस्पिटल में छात्रा के पॉजिटिव निकालने का खुलासा हुआ। सीएमएचओ डॉ एके शर्मा ने इसकी पुष्टि की है।    जानकारी अनुसार रायसेन के औद्योगिक क्षेत्र मंडीदीप में कोरोना पॉजिटिव छात्रा मिली है। 27 वर्षीय छात्रा इंदौर से कोचिंग करके लौटी थी। आज सुबह आई रिपोर्ट में उसके कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है। लॉकडाउन की घोषणा के पहले ही छात्रा इंदौर से दो ममेरे भाइयों के साथ मंडीदीप आई थी। पॉजिटिव छात्रा के पिता सिक्योरिटी सुपरवाइजर है। रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद छात्रा के मंडीदीप शीतल टाउन स्थित निवास पर प्रशासन की टीम पहुंची। छात्रा के छह परिजनों को शीतल टाउन स्थित घर पर होम क्वॉरेंटाइन किया गया। सभी के सैंपल लेकर जांच हेतु भोपाल भेजे जाएंगे। मंडीदीप में पहला पॉजिटिव मामला आने के बाद प्रशासन अलर्ट हो गया है। एक बड़ा सवाल यह भी उठता है कि क्या पहले लॉक डाउन की घोषणा के पहले ही इंदौर में कोरोना ने दस्तक दे दी थी, जो इंदौर से कोरोना वायरस संक्रमण लेकर छात्रा मंडीदीप पहुंची।  

Dakhal News

Dakhal News 27 April 2020


gwalior, Huge fire, cap market ,burnt , ashes in lakhs

ग्वालियर। ग्वालियर के टोपी बाजार स्थित झावेरी मार्केट के तलघर में बनी एक दुकान में रविवार देर रात भीषण आग लग गई जिस दुकान में आग लगी उसमें हैंडलूम का सामना रखा हुआ था। आगजनी में दुकान में रखा सामान पूरी तरह से जलकर राख हो गया। सूचना के बाद मौके पर पहुंची फायर बिग्रेड ने दो घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। फिलहाल आग लगने के कारण ज्ञात नहीं हो सका है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।    जानकारी अनुसार टोपी बाजार की संकरी गली में बनी झवेरी मार्केट के तलघर में रविवार रात अचानक आग लग गई। दुकान से आग की लपटें निकलती देख लोगों ने तुरंत फायर ब्रिगेड गाडिय़ों को सूचना दी गई। सूचना के बाद महाराज बाड़े से तत्काल फायर ब्रिगेड की गाड़ी मौके पर पहुंचीं। मार्केट का रास्ता संकरा होने के कारण फायर ब्रिगेड की गाड़ी अंदर नहीं जा पाई और ना ही उसके कुछ उपकरण। इसके बाद बेसमेंट के बगल में बनी दीवार तोडक़र और रास्ता बनाकर आग पर पानी की बौछारें डाली जा सकीं। करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका। फायर बिग्रेड की चार गाडिय़ों ने आग पर काबू पाया। समय रहते आग बुझा लेने से आग फैल नहीं पाई अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था। प्रारंभिक जांच में आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट बताया जा रहा है। पुलिस  ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

Dakhal News

Dakhal News 27 April 2020


indore, 57 deaths, corona , higher than national average

इंदौर।  देश में कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में शामिल इंदौर में इस महामारी से दो और मरीजों की मौत की पुष्टि हुई है। सीएमएचओ डॉ. प्रवीण जड़िया ने शनिवार को बताया कि शहर में पिछले तीन दिन में कोरोना वायरस संक्रमण से दो और पुरुषों की मौत हुई है। इन्हें मिलाकर इंदौर में कोरोना से हुई मौतों की संख्या 57 पर पहुंच गई है, जो राष्ट्रीय औसत से ज्यादा है।      सीएमएचओ डॉ. जड़िया ने बताया कि दोनों मरीज शहर के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती थे। इनमें से एक व्यक्ति दमे का पुराना मरीज था। सीएमएचओ ने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान जिले में कोविड-19 के 56 नये मरीज मिलने के बाद इनकी तादाद 1,029 से बढ़कर 1,085 पर पहुंच गयी है।     आंकड़ों के मुताबिक इंदौर जिले में कोविड-19 के मरीजों की मृत्यु दर शनिवार सुबह तक 5.25 प्रतिशत थी।  जिले में इस महामारी के मरीजों की मृत्यु दर पिछले कई दिनों से राष्ट्रीय औसत से ज्यादा बनी हुई है, जो स्वास्थ्य अधिकारियों के लिए चिंता का विषय है।   

Dakhal News

Dakhal News 25 April 2020


bhopal, Meteorological Department ,estimates rain, some areas , Madhya Pradesh

भोपाल। मध्य प्रदेश में बेमौसम बरसात का सिलसिला जारी है। अप्रैल माह में भी  प्रदेश के कई जिलों बारिश हो रही है। प्रदेश के उत्तरी और उत्तर-पूर्वी जिलों में पिछले कुछ दिनों से हल्की बारिश कुछ स्थानों पर देखने को मिल रही है। वहीं शनिवार को राजधानी भोपाल के आसमान में हल्के बादल छाने के साथ तेज धूप निकली है। मौसम विभाग ने मध्य प्रदेश का साप्ताहिक मौसम पूर्वानुमान (24 से 30 अप्रैल 2020) जारी किया है।    वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक आर आर त्रिपाठी ने जानकारी देते हुए बताया कि 25 अप्रैल से राज्य पर बारिश वाले बादल कम हो जाएंगे लेकिन 25 से 27 अप्रैल के बीच ग्वालियर, मुरैना, रीवा, सतना, पन्ना और टीकमगढ़ आदि जिलों में छिटपुट बारिश जारी रह सकती है। 28 से 30 अप्रैल के बीच मध्य प्रदेश के उत्तरी और पश्चिमी जिलों में हल्की बारिश होने की संभावना है। यानि सप्ताह के आखिर में लंबे समय बाद उज्जैन, रतलाम, इंदौर, धार और नीमच जैसे पश्चिमी जिलों में बारिश होगी। शिवपुरी, गुना और आसपास के भागों में भी बारिश के आसार उस दौरान नजऱ आ रहे हैं।    

Dakhal News

Dakhal News 25 April 2020


Bhopal ,blind woman , rape, arrested

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के शाहपुरा थाना क्षेत्र में एक दृष्टिहीन महिला से दुष्कर्म और लूट की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपित को गिरफ्तार करने में पुलिस ने सफलता हासिल की है। साथ ही आरोपित के पास लूट का सामान भी बरामद कर लिया है। पूछताछ में आरोपित ने महिला के साथ दुष्कर्म और लूट की वारदात को अंजाम देना स्वीकार किया है। भोपाल साउथ एसपी सांई कृष्णा थोटा ने शनिवार को मामले का खुलासा करते हुए बताया शाहपुर क्षेत्र में रहने वाली 53 वर्षीय नेत्रहीन महिला ने गत 17 अप्रैल को सुबह रिपोर्ट दर्ज कराई। पीडि़त ने बताया कि वह अपने पति के साथ यहां रहती है, लेकिन लॉकडाउन के कारण उसके पति राजस्थान में फंस हैं, इसलिए वह अभी यहां अकेले रह रही है। वह 16 अप्रैल की रात खाना खाकर सो गई थी, तभी एक अज्ञात व्यक्ति उसके घर घुसा और उसके साथ दुष्कर्म किया और उसके बाद आरोपित घर में रखा सामान लूटकर फरार हो गया। महिला की शिकायत पर पुलिस ने अज्ञात आरोपित के खिलाफ धारा 376(2)(एल), 377, 450 और 380 भादवि के तहत मर्ग कायम कर जांच शुरू की। उन्होंने बताया कि पीडि़त दृष्टिहीन महिला एक बैंक में अफसर है। पुलिस ने मामले को गंभारता से लेते हुए आरोपित की तलाश शुरू की और संदेह के आधार पर भोपाल के टीन शेड स्थित गुलाब नगर में रहने वाले साहूलाल उर्फ मनोज (25) पुत्र हीरालाल कोल को शुक्रवार को देर रात हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने महिला के साथ दुष्कर्म और लूट की वारदात को अंजाम देना स्वीकार किया। पुलिस ने आरोपित के पास से लूटा गया सोमसंग कंपनी का मोबाइल, एक जोड़ी चांदी की पायल व एक जोड़ी बिछिया बरामद की है। एसपी के अनुसार, आरोपित शातिर बदमाश है और उसके खिलाफ पहले से चोरी, नकबजनी, अवैध शस्त्र रखने तथा दुष्कर्म जैसे 20 मामले पंजीबद्ध है। आरोपित से फिलहाल पूछताछ जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 25 April 2020


Khandwa,Suspected death,sub inspector,  corona, did not have symptoms

खंडवा। खंडवा जिले के जावर थाने में पदस्थ उप निरीक्षक (सब इंस्पेक्टर) अंतर सिंह चौहान की बीती देर रात अचानक तबियत खराब होने के बाद अस्पताल ले जाते समय रास्ते में उनकी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि उनमें कोरोना के कोई लक्षण नहीं थे। उनके सेम्पल जांच के लिए भेजे गये हैं। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।  जावर थाना पुलिस के अनुसार, सब इंस्पेक्टर अंतर सिंह चौहान (56) की बुधवार को देर रात अचानक तबियत खराब हो गई थी, जिसके चलते उन्हें तत्काल जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। जिला अस्पताल के चिकित्सक डॉ. योगेश शर्मा ने बताया कि सब इंस्पेक्टर चौहान में कोरोना संबंधी कोई पूर्व शिकायत नहीं थी और न ही उनमें इस बीमारी के कोई लक्षण थे। उनके सेम्पल लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं। उनका शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही उनकी मौत के कारण का पता चल पाएगा। प्रथमदृष्टया उनकी मौत की वजह हार्ट अटैक लग रही है।   मूल रूप से इंदौर के पास सिमरोल के रहने वाले सब इंस्पेक्टर चौहान लम्बे समय से जावर थाने में पदस्थ रहे। उनके पास कुछ समय के लिए इस थाने के प्रभारी का भी दायित्य रहा है। वे यहाँ स्टाफ़ क़्वार्टर में अकेले रहते थे। थाने में उनके सहयोगी सहायक उप निरीक्षक महेंद्र कराहे ने बताया कि कल रात करीब बारह बजे जब चौहान अपने घर में थे, तब अचानक उन्हें घबराहट हुई तो उन्हें तत्काल पुलिस वाहन से जावर के अस्पताल मेले जाया गया, वहां उनका ब्लड प्रेशर काफ़ी कम हो रहा था, स्थिति गंभीर होते देख उन्हें यहाँ से खण्डवा जिला मुख्य चिकित्सालय रेफर किया गया, जहाँ पहुंचने के पूर्व ही उन्होंने दम तोड़ दिया।

Dakhal News

Dakhal News 23 April 2020


bhopal, Man accused, murdering youth ,arrested,drinking alcohol dispute

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के हबीबगंज थाना इलाके में बीती देर रात शराब पीने के विवाद में एक युवक की हत्या कर दी गई। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू की। पुलिस ने मामले में पांच आरोपितों को गिरफ्तार किया और उनसे पूछताछ की जा रही है।हबीबगंज थाना पुलिस के अनुसार, मृतक की पहचान शाहपुरा निवासी मनोज पवार के रूप में हुई है। वह एक निजी स्कूल की बस का चालक था। पुलिस ने बताया कि मनोज अपने परिचितों के साथ बुधवार-गुरुवार की दरमियानी रात शराब पी रहे थे। इसी दौरान उनके बीच विवाद हुआ, जिसके चलते परिचितों ने मनोज पर चाकू से हमला कर उसकी हत्या कर दी और भाग गए। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए हमीदिया अस्पताल पहुंचाया। वहीं, पुलिस ने मामले में पांच आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। फिलहाल आगे की कार्रवाई जारी है।

Dakhal News

Dakhal News 23 April 2020


dewas, Labor money is over, laborers are forced, go to Betul , foot from the potter

देवास। लॉक डाउन के चलते सोनकच्छ के समीपस्थ ग्राम कुम्हारिया में बैतूल जिले के 100 से अधिक मजदूर फंस गए हैं। पैसा खत्म हो जाने के कारण अब ये मजदूर परिवार सहित पैदल ही बैतूल जा रहे हैं।    सूत्रों के अनुसार इन मजदूरों को क्वॉरेंटाइन के नाम पर पिछले 20 दिनों से रोक कर रखा गया था। जो मजदूर ग्राम कुम