जंगल में महुआ बीनने गए दंपत्ति पर हाथियों के दल का हमला
sehdol, group of elephants, attacked the couple

शहडोल। जिले के जयसिहंगर वन परिक्षेत्र में एक बार फिर हाथियों के दल ने उत्पात मचाया है। इस दौरान हाथियों के हमले में दो लोगों की मौत हो गई। दोनों पति-पत्नी बताए जा रहे हैं। सूचना पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची है। वन कर्मचारी की टीम अभी गांव में मुनादी कर कार्रवाई कर रही है। इस घटना से ग्रामीणों में जबरदस्त दहशत है। वन विभाग ने लोगों को घर से बाहर नहीं निकले की सलाह दी है।

जानकारी अनुसार जिले के वन परिक्षेत्र जयसिंहनगर में चितराव गांव के पास पिछले दो दिनों से नौ हाथियों का दल दिख रहा था। सोमवार रात करीब 12 बजे चितराव गांव में हाथियों का दल पहुंच गया। सोमवार आधी रात गांव में घुसे हाथियों के दल ने जमकर उत्पात मचाया। इसके बाद मंगलवार की सुबह करीब 5 बजे चितराव गांव के मोती लाल बसोर व उसकी पत्नी मुलिया बाई महुआ बीन रहे थे। उसी समय हाथियों का दल वहां से निकला और दोनों पति-पत्नी को बुरी तरह कुचल दिया। दोनों की मौके पर मौत हो गई है। घटनास्थल पर पुलिस विभाग के अधिकारी पहुंच गए हैं और शव को अपने कब्जे में ले लिया है। इस घटना के बाद आस पास के इलाके में भय का माहौल बना हुआ था। वन विभाग और पुलिस का अमला हाथियों पर नजर रखे हुए है। वन परिक्षेत्र अमझोर, जयसिंहनगर और सीधी एवं जयसिंह नगर थाना प्रभारी अपने बल के साथ जंगल से लगे ग्रामीण क्षेत्रों में मुनादी करा रहे हैं और जंगल की तरफ ना जाने की समझाइश दी जा रही है।

 

मुख्य वन संरक्षक केपी वर्मा ने बताया कि छत्तीसगढ़ की तरफ से हाथियों का दल अनूपपुर होते हुए शहडोल के जंगलों में पहुंचा है। यह हाथियों का नया दल है। दल में दो बच्चे भी शामिल हैं, इसलिए हाथी अधिक संवेदनशील दिख रहे हैं।

Dakhal News 5 April 2022

Comments

Be First To Comment....

Video

Page Views

  • Last day : 8492
  • Last 7 days : 59228
  • Last 30 days : 77178
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved © 2022 Dakhal News.