समाज


ijtema

  गुरुवार से आएंगी विदेशी जमातें    72वें आलमी तब्लीगी इज्तिमा के पहले दिन 22 नवंबर को करीब 300 निकाह होंगे। इज्तिमा का आगाज सुबह फजिर की नमाज के बाद मजहबी तकरीर से होगा। इज्तिमा में शिरकत का पैगाम देने स्थानीय जमातें शहर में घूमने लगी हैं, जबकि विदेशी जमातों के आने का सिलसिला गुरुवार से शुरू होगा। इज्तिमा का समापन 25 नवंबर को सामूहिक दुआ के साथ होगा। इसके बाद जमातों के लौटने का सिलसिला शुरू होगा। यहां चारों दिन होने वाली नमाजों के वक्त का भी एेलान कर दिया गया है। आयोजन स्थल को दो फूड जोन के अलावा दो बुक जोन भी बनाए गए हैं। यहां विभिन्न लेखकों की धार्मिक पुस्तकें मिलेंगी। निकाह के लिए रजिस्ट्रेशन चल रहे हैं। इज्तिमा स्थल का क्षेत्रफल करीब 350 एकड़ होने से यहां तीन सेक्टरों में स्पेशल काउंटर बनाए हैं। यहां भीड़ में गुम होने वाले व्यक्ति का अनाउसमेंट होगा तो किसी की कोई वस्तु गुमने की सूचना भी दर्ज करके प्रसारित की जाएगी। यह काउंटर बी, सी व एच सेक्टर में होंगे। डीआईजी इरशाद वली और एएसपी दिनेश कौशल ने इज्तिमा स्थल पहुंचकर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। शहर के विभिन्न इलाकों से आयोजन स्थल तक की ट्रैफिक व्यवस्था के संबंध में भी संबंधित अफसरों से चर्चा की। जमातियों के वाहनों को पार्क करने के लिए करीब 250 एकड़ जमीन में पार्किंग के इंतजाम किए जा रहे हैं। करीब 42 पार्किंग जोन में होने वाली इस व्यवस्था के दौरान छोटे-बड़े वाहनों को अलग-अलग स्थान पर खड़ा कराया जाएगा। यह काम बुधवार तक मुकम्मल हो जाएगा।   नमाज का नाम वक्त फजिर सुबह 6:15 बजे जौहर दोपहर 2:00 बजे असिर शाम 4:30 बजे मगरिब शाम 5:42 बजे ईशा बयान खत्म होने के बाद

Dakhal News

Dakhal News 19 November 2019


shivraj singh

  परिजनों से मिलने पहुंचे शिवराज, कहा- दो महीने में 11 मौत हुईं   रायसेन जिले के नूरगंज गांव में दूषित पानी पीने से 4 लोगों की मौत के बाद आज पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पीडित परिजनों से मिलने पहुंचे। उन्होंने इस मामले में जिला प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की। उन्होंने कहा कि नूरगंज में दो महीने में बीमारी से 11 मौतें हुई है। शिवराज के साथ स्थानीय विधायक सुरेंद्र पटवा भी नूरगंज पहुंचे थे। शिवराज ने जिला प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया। उन्होंने राज्य की कांग्रेस सरकार से इस मामले में कार्रवाई किए जाने की मांग करते हुए कहा कि अगर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गयी, तो भारतीय जनता पार्टी  इसको लेकर और तेज आवाज उठाएगी। पूर्व मुख्यमंत्री ने दावा करते हुए कहा कि नूरगंज में दो महीने में बीमारी से 11 मौतें हुई है। उन्होंने चेतावनी देकर कहा कि व्यवस्थाएं सुधरे, नहीं तो होगा आंदोलन होगा। उन्होंने कहा कि अभी भी 80 लोग बीमार हैं। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस सरकार पर संबल योजना से गरीबों के नाम काटे जाने के भी आरोप लगाये। गांव में पीड़ित परिवार से मिलने के बाद शिवराज सिंह ने प्रभारी मंत्री हर्ष यादव को फोन से बात की। उन्होंने प्रभारी मंत्री को बताया कि गांव की हालत बेहद खराब है। यहां पीने के पानी के लिए अतिरिक्त टैंकर उपलब्ध कराएं जाएं। 24 घंटे डॉक्टर की ड्यूटी गांव में लगाई जाई और लोगों की आर्थिक मदद की व्यवस्था की जाए। 

Dakhal News

Dakhal News 19 November 2019


lal ji tandan

गौ नस्ल सुधार का अभियान चले संरक्षण-संर्वधन की समग्र योजना बनाकर करें कार्य राज्यपाल  लाल जी टंडन ने कहा है कि गौ नस्ल सुधार का अभियान विश्वविद्यालय द्वारा चलाया जाए। विश्वविद्यालय केवल अनुदान पर आश्रित नहीं रहे, आय के स्त्रोत विकसित कर आत्म-निर्भर बनें। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय मिशन मोड में गौ-संरक्षण और संवर्धन की समग्र योजना पर कार्य करें। नस्ल सुधार, चारा और दूध उत्पादन में नई तकनीक के उपयोग का एकीकृत रूप से क्रियान्वयन करे। टंडन राजभवन में नाना जी देशमुख पशु चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय जबलपुर की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में राज्यपाल की पहल पर विश्वविद्यालय को पशुपालन विभाग द्वारा सौ-सौ गायों की 10 गौशालाएँ संचालित करने के लिए अनुदान उपलब्ध कराने का निर्णय हुआ। राज्यपाल  टंडन ने कहा कि गौ-वंश को बचाना वर्तमान में सबसे बड़ी चुनौती है। इस परिदृश्य को बदलने विश्विद्यालय गौ पालन के समग्र प्रोजेक्ट पर कार्य करें। उन्होंने कहा कि आधुनिक तकनीक का उपयोग निराश्रित गायों को विश्वविद्यालय में रखकर उनको सेरोगेटेड मदर की तरह उपयोग करने की पहल पर विचार करें। लक्ष्य बनाकर देशी नस्ल की उन्नत बछिए विश्विद्यालय द्वारा तैयार किये जाये। तैयार बछिए के विक्रय से विश्वविद्यालय की आर्थिक निर्भरता कम होगी। इसी तरह चारा उत्पादन का कार्य भी नवीन विधि से किया जाए। चारा रखने के ऐसे बैग मिल रहे हैं जिनमें एक से डेढ़ माह तक हरा चारा सुरक्षित रहता है। उत्पादित चारा जहाँ एक ओर विश्वविद्यालय के पशुओं की आहार आवश्यकताओं को पूरा करेगा, वहीं उसकी बिक्री से क्षेत्र में दूध के उत्पादन में भी वृद्धि और सुधार होगा। पशुपालन के लाभों से परिचित हो ग्रामीण पशुपालन के लिए प्रोत्साहित होंगे। लाल जी टंडन ने कहा कि विश्वविद्यालय मूल्यवर्धक गतिविधियों के प्रसार के प्रयासों पर विशेष बल दे। संसाधनों के विकास के कार्यों को प्राथमिकता दी जाए ताकि नई परियोजना सेल्फ सस्टेनेबल रहें। उन्होंने कहा कि इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन द्वारा बॉयो गैस प्लान्ट लगाने की योजना संचालित की गई है, जिसमें प्लांट लगाने के साथ कम्पनी उत्पादित गैस भी खरीद लेती है। प्लांट का अवशेष भी समृद्ध खाद होता है, जिसे तालाब में प्रवाहित कर मत्स्य उत्पादन में कई गुना वृद्धि की जा सकती है। उन्होंने अपेक्षा की कि विश्वविद्यालय इस तरह नई तकनीक के सफल प्रयोगों को दिखाकर किसानों तक पहुँचाने के प्रयास करें। उन्होंने कहा कि गायों की प्रजनन क्षमता में भी सुधार के प्रयास जरूरी हैं। नई विधियों से एक वर्ष में कई उन्नत नस्ल तैयार करने के उदाहरण मिल रहे हैं। इसका विस्तार कर देशी नस्ल को बेहतर बनाने के कार्य किये जायें। उन्होंने कहा कि बाजारवाद के चलते विदेशी कम्पनियाँ कभी देशी नस्लों को बढ़ावा नहीं देगी। केन्द्र सरकार देशी नस्ल सुधार कार्यक्रम पर विशेष बल दे रही है। उसके सहयोग से एक-डेढ़ वर्ष में चमत्कारी परिणाम प्राप्त किए जा सकते हैं। राज्यपाल टंडन ने कहा कि महान नानाजी देशमुख के नाम पर स्थापित विश्वविद्यालय चुनौतियों के नवाचारी सोच के साथ समाधान की कार्य-शैली का उदाहरण प्रस्तुत करे। उन्होंने बताया नानाजी के समय सरकार बोरिंग नि:शुल्क करवाती थी। पम्प पर भी काफी अनुदान था। कॉस्ट आयरन पाइप लगाना पड़ता था, जो बहुत महंगा होता था। गरीब किसान उसका लाभ नहीं ले पाते थे। नाना जी ने निकट के जंगल के बाँसों को अंदर से खोखला कर उनको पाइप बनाकर उपयोग किया और गाँव की खेती की दशा बदल दी। बैठक में कुलपति डा. जुयाल द्वारा बताया गया कि विश्वविद्यालय ने देशी नस्ल की नर्मदा निधि विकसित की है जो ग्रामीण परिवेश में पालन की उपयुक्त नस्ल है। क्लोनिंग प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में एक पेटेंट भी मिला है। उन्होंने विश्वविद्यालय द्वारा गोबर से निर्मित मॉस्किटो रैपलेंट, लकड़ी और गमले के उत्पाद भी दिखाए। बैठक में राज्यपाल के सचिव श्री मनोहर दुबे उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 19 November 2019


ट्रैफिक रूल

  ट्रैफिक कंट्रोल का शुभी जैन का अपना अंदाज   इंदौर की सड़कों पर एक कॉलेज छात्रा अपने अनोखे अंदाज में ट्रैफिक रूल्स समझा रही है | शुभी जैन नाम की यह स्टूडेंट रेड लाइट पर ट्रेफिक नियम समझाने के साथ सलीके से ट्रैफिक कंट्रोल भी कर लेती है | इंदौर की कॉलेज छात्रा शुभी जैन का अपने अंदाज में ट्रैफिक रूल्स बताने वाला वीडियो वायरल हो रहा है | वीडियो में छात्रा रेड लाइट पर रुके वाहनों के पास जाकर लोगों को ट्रैफिक के नियम बता रही हैं | टू-व्हीलर पर जो कोई बिना हेलमेट के नजर आता है उससे कहती हैं कि आप हेलमेट प‍हनिए, कार चालकों को सीट बेल्ट लगाने की सलाह देती हैं | जो कोई भी सीट बेल्ट और हेलमेट लगाए नजर आता है उसे धन्यवाद देती हैं | शुभी जैन का कहना है उम्मीद है हम सभी अपने प्रयासों से जल्दी ही इंदौर को ट्रैफिक में आदर्श शहर बनाएंगे |  वीडियो वायरल होने के बाद लोग उनके इस अंदाज को लोग खूब पसंद कर रहे हैं | शहर के लोगों का कहना है कि जिस तरह स्वच्छता में इंदौर नंबर वन बन है उसी तरह ट्रैफिक रूल्स का पालन करने में भी इसे नंबर वन होना चाहिए  वीडियो में एक जगह शुभी एक व्यक्ति से कहती हैं कि सर आपके पास तो हेलमेट हैं प्लीज इसे पहन लिजिए, उनके इस आग्रह के पास वो व्यक्ति तुरंत अपना हेलमेट पहन लेता है | बाकी सब से वो कहती हुईं नजर आ रही हैं कि सर कोशिश करें की आप अगली बार हेलमेट पहनकर ही गाड़ी चलाएं  शुभी के इस अंदाज को युवा खासा पसंद करते हैं |    

Dakhal News

Dakhal News 17 November 2019


Acid Attack

  छत्तीसगढ़ी फिल्मों की अभिनेत्री हैं माया   छत्तीसगढ़ी फिल्मों की अभिनेत्री माया साहू पर भिलाई में एसिड अटैक किया गया | माया पर यह एसिड अटैक उस समय हुआ जब वो अपने घर से बाहर निकल रहीं थी |  सुपेला इलाके में माया नाम की अभिनेत्री पर ऐसिड अटैक की घटना हुई है | बताया जा रहा है कि युवती आपने घर से बाहर निकल रही थी, इसी दौरान किसी युवक ने उस पर केमिकल फेंक दिया, जिससे उसे तेज जलन हुई और उसका शरीर झुलसने लगा | युवती को जिला अस्पताल दुर्ग में उपचार के लिए दाखिल कराया गया  माया साहू छत्तीसगढ़ी फिल्मों की अभिनेत्री है|  पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शनिवार की दोपहर पीड़ित युवती माया साहू सुपेला स्थित अपने घर से बाहर निकली थी | इसी दौरान बाइक सवार एक युवक वहां पहुंचा और बोतल में रखा केमिकल उसपर उड़ेल कर फरार हो गया  इसके बाद युवती दर्द से छटपटाने लगी सड़क पर मौजूद लोगों ने युवती को उठाया और परिजनों को सूचना दी इसके बाद पुलिस को घटना की सूचना दी गई और युवती को तत्काल अस्पताल ले जाया गया | डॉक्टरों ने युवती पर एसिड से हमले की पुष्टी की है | पुलिस ने अज्ञात युवक के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है | यह घटना शहर के बेहद भीड़-भाड़ वाले इलाके में हुई  बताया जा रहा है कि युवती के सिर पर भी चोट आई है |

Dakhal News

Dakhal News 17 November 2019


bus Accident

  बिरसा मुंडा जयंती मना कर वापस आ रहे थे   सतना में शुक्रवार को हुई बस दुर्घटना में 4 लोगों की मौत हो गई इस हादसे में दो दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए  बस सवार सभी लोग बिरसा मुंडा जयंती मनाकर वापस आ रहे थे |    बस हादसे में हुए सभी घायलों को मैहर के सिविल अस्‍पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया है | हालांकि सतना कलेक्टर डॉक्टर सत्येंद्र सिंह ने   30 घायलों की पुष्टि की है | मृतकों के परिजनों को दो -दो लाख ,गंभीर रूप से घायल को 25 - 25 हजार और अन्य घायलों को दस दस हजार रुपये देने की घोषणा की गई है | मुख्‍यमंत्री कमलनाथ ने इस घटना पर शोक व्‍यक्‍त किया है |  बस में सवार लोग बिरसा मुंडा जयंती कार्यक्रम से लौट  रहे थे | बताया जाता है कि यह हादसा मैहर अमडा नाला नेशनल हाईवे पावरहाउस के सामने हुआ यहां बस रोड से 5 फीट नीचे गिर गई  इसमें बड़ी संख्‍या में लोग दब गए  दुर्घटना में बस चालक की मौके पर ही मौत हो गई जबकि अनेक लोगों के बस के नीचे दब गए थे | मैहर एसडीएम सुरेश अग्रवाल ने मौतों की पुष्टि की बस मैहर से कटनी की तरफ जा रही थी ये लोग रीवा से बस में बिरसा मुंडा जयंती मना कर वापस आ रहे थे | 

Dakhal News

Dakhal News 16 November 2019


cbse

cbse exam केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने सत्र 2020 के परीक्षा पैटर्न में बदलाव कर प्रैक्टिकल और इंटरनल असेसमेंट को उन ज्यादातर विषयों में भी लागू कर दिया है, जिनमें अभी तक यह लागू नहीं था। बताया जा रहा है कि इंटरनल असेसमेंट 20 अंकों का होगा, जिसमें पास होने के लिए छात्रों को कम से कम छह नंबर हासिल करने होंगे। बोर्ड ने 10वीं और 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिए थ्योरी, प्रोजेक्ट और इंटरनल असेसमेंट में न्यूनतम अंक की सूची जारी कर दी है। सीबीएसई के सर्कुलर में कहा गया है कि प्रोजेक्ट और प्रैक्टिकल परीक्षा लेने के लिए बोर्ड द्वारा परीक्षक नियुक्त किया जाएगा। वहीं, इंटरनल असेसमेंट स्कूल के ही शिक्षकों द्वारा किया जाएगा। इसके अलावा, दसवीं के छात्रों को पास होने के लिए हर विषय में प्रैक्टिकल और थ्योरी में मिलाकर 33 प्रतिशत अंक ही लाने होंगे। मगर, 12वीं के छात्रों को पास होने के लिए प्रैक्टिकल, थ्योरी और इंटरनल असेसमेंट में अलग-अलग 33 फीसद अंक लाने होंगे। 12वीं कक्षा में पहले हिंदी, अंग्रेजी, गणित आदि विषयों की परीक्षा 100 अंक की होती थी। मगर, नई व्यवस्था के अनुसार अब इनमें भी 20 अंकों का इंटरनल असेसमेंट भी कराया जाएगा। सर्कुलर में कहा गया है कि 70 अंकों की परीक्षा वाले पेपर में छात्रों को पास होने के लिए कम से कम 23 नंबर लाने होंगे। वहीं, 30 अंकों की प्रैक्टिकल परीक्षा में नौ अंक लाने अनिवार्य होंगे। सीबीएसई ने प्री-बोर्ड परीक्षा के लिए टाइम टेबल जारी कर दिया है। इसके अनुसार, 10वीं और 12वीं कक्षा की प्री-बोर्ड परीक्षाएं 16 से 30 दिसंबर तक होंगी। इसके साथ ही विद्यालयों को यह भी निर्देश दिया है कि प्री-बोर्ड परीक्षाएं दो शिफ्ट में कराने की जगह एक शिफ्ट में कराएं। सीबीएसई के परीक्षा नियंत्रक संयम भारद्वाज ने बताया कि बदले परीक्षा पैटर्न के बारे में सभी स्कूलों को जानकारी दे दी गई है। छात्रों को बोर्ड परीक्षा के लिए तैयार करने के लिए प्री-बोर्ड परीक्षा भी इसी पैटर्न पर की जाएगी।

Dakhal News

Dakhal News 13 November 2019


बछिया और बछड़े की शादी

  बछिया और बछड़ा बने दूल्हा- दुल्हन   एक बछिया दुल्हन बनी और बछड़ा बना दूल्हा  | सुनने में यह बड़ा अजीब लगता है लेकिन है सच  इन दोनों की शादी में बाराती भी थे और बैंडबाजा भी | पूरे विधिविधान से यह  अनोखी  विवाह हुआ  |   सीहोर जिले के जावर तहसील के गांव करमनखेड़ी में एक बछिया और बछड़े की शादी का अनोखा मामला सामने आया | जिसमें दुल्हा गाय का बछड़ा तो दुल्हन गाय की बछड़ी थी, जबकि बाराती के रूप में ग्रामीण थे | बैंडबाजों के साथ जब  बारात निकली तो देखने वाले देखते ही रह गए | करमनखेड़ी गांव में दो महीने पहले एक गाय का बछड़ा और बछिया बाहर से आ गए थे | यह दोनों ही साथ में रहने लगे | जहां पर जाते वहां भी साथ में ही रहते थे | दोनों के बीच का प्रेम देखकर ग्रामीण आश्चर्य में पड़ गए | उनके इस प्रेम को देखने के बाद सभी ने मिलकर दोनों की शादी कराने का निर्णय लिया  ग्रामीणों ने इसके लिए राशि एकत्रित की | वहीं बकायदा गणेश पूजन के बाद दोनों को दुल्हा-दुल्हन बनाया गया | गांव वालों ने पूरे विधि विधान से यह विवाह कराया गया | खास बात यह है कि शादी कराने के लिए पंडितों को बुलाया गया | विवाह के दिन वर पक्ष बछड़े की तरफ से अर्जुनसिंह ठाकुर बैंडबाजे के साथ बारात लेकर वधु पक्ष बछिया के तेजसिंह आचार्य के घर बारात लेकर पहुंचे | यहां बकायदा स्टेज सजाया गया था, जहां एक से बढ़कर एक नृत्य की प्रस्तुति देखने को मिली | उसके बाद वर और वधु  के अग्नि के  समक्ष सात फेरे करवाए गए |  अनोखी शादी को जिसने भी देखा वह देखते ही रह गया |    

Dakhal News

Dakhal News 12 November 2019


मंत्री शर्मा

जंबूरी मैदान मेँ होगी संगीतमय रामकथा मंत्री शर्मा  जनसम्पर्क तथा धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री पी.सी. शर्मा ने जंबूरी मैदान पर संगीतमय रामकथा के आयोजन के लिये आज भूमि-पूजन किया।  गुफा मन्दिर के महंत  चंद्रमा दास त्यागी पार्षद  योगेंद्र सिंह चौहान तथा गिरीश शर्मा और राम कथा आयोजन समिति के पदाधिकारी मौज़ूद थे।    

Dakhal News

Dakhal News 4 November 2019


मंत्री  शर्मा ने रवाना की पटना साहिब के लिये पहली विशेष तीर्थ दर्शन ट्रेन

तीर्थ दर्शन के लिये रवाना हुए भोपाल, सागर, रायसेन, होशंगाबाद जिले के एक हजार श्रृद्धालु जनसम्पर्क तथा धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री  पी. सी. शर्मा ने आज हबीबगंज रेल्वे स्टेशन से सिख तीर्थ पटना साहिब  के लिये पहली विशेष तीर्थ दर्शन ट्रेन को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया। ट्रेन से भोपाल, सागर, रायसेन, होशंगाबाद जिले के 1000 से अधिक श्रृद्धालु तीर्थ यात्रा पर रवाना हुए। मंत्री शर्मा ने तीर्थ यात्रियों से कहा कि मुख्यमन्त्री  कमल नाथ ने  तीर्थ दर्शन योजना मेँ सभी धर्मो के धार्मिक स्थल  को सम्मिलित किया है।  शर्मा ने ट्रेन के सभी कोच  मेँ पहुँच कर तीर्थ यात्रियों का फूल मालाओं से स्वागत किया। साथ ही,  ट्रेन मेँ अटेंडर स्टाफ और चिकित्सक से मिले तथा रसोई आदि की व्यवस्था का निरीक्षण कियाl  इस अवसर पर  नरेन्द्र सलूजा,पार्षद योगेंद्र सिंह चौहान और  अमित शर्मा सहित बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।  सूर्योदय के पहले घाट पर की  छठ पूजा   मंत्री शर्मा आज सुबह सूर्योदय से पहले शिवाजी नगर के तालाब पर छठ पूजा घाट पर पहुँचे और परम्परानुसार छठ पूजा की।  शर्मा बड़ा तालाब पर शीतलदास की बगिया और प्रेमपुरा  घाट सहित छठ पूजा के अन्य घाटों पर पहुँचकर पूजा मेँ सम्मिलित हुए। पार्षद  योगेंद्र सिंह चौहान साथ थेl   

Dakhal News

Dakhal News 4 November 2019


मां ने क़ी  बेटे की विदाई

  लोकगीत चोला माटी के राम के साथ बेटे की विदाई यह दृश्य देखेंगे तो खुद को रोने से रोक नहीं पाएंगे   एक कलाकार माँ ने जब अपने कलाकार बेटे को अंतिम विदाई दी तो माहौल बेहद ग़मगीन था | ऐसे में माँ के होठों से एक लोकगीत चोला माटी के राम | निकला तो कलेजा फट पड़ा  इस वेदना के पलों में आँखों में सिर्फ आंसुओं का सैलाब था  |    लोक गायिका व अभिनेत्री मां और प्रसिद्ध लोक कलाकार के इस लाडले की अंतिम विदाई के समय ममता नगर में जो कुछ हुआ, वैसा केवल किस्से-कहानियों में ही  मिलता है  | यह दृश्य किसी को भी रोने को मजबूर कर सकते हैं  | मां ने बेटे की अंतिम इच्छा के अनुरूप छत्तीसगढ़ी लोकगीत  एकर का भरोसा, चोला माटी के राम  गाकर अंतिम विदाई दी  साथी कलाकारों ने ढोलक और हारमोनियम पर संगत देकर दोस्त को श्रद्धांजलि अर्पित की पूनम तिवारी और रंगकर्मी दीपक तिवारी के बेटे सूरज तिवारी  का  हृदयाघात से  निधन हो गया  | अंतिम यात्रा की तैयारी शुरू हुई अर्थी तैयार की गई आरती तिलक के बाद मुक्तिधाम निकलने के पहले मां पूनम ने बेटे की अंतिम इच्छा को पूरा करने के लिए दिल पर पत्थर रखा और अपने नाटक के लोकगीत 'एकर का भरोसा, चोला माटी के राम गाया  | यह गीत पूनम तिवारी  सैकड़ों बार गा चुकी थीं, लेकिन  एक बेटे का मां से हमेशा के लिए बिछड़ने की जो पीड़ा थी, उसने सभी को रुला दिया |  सूरज कुछ दिनों पहले बीमार हुए तो पल्स नेहरू नगर अस्पताल में भर्ती किए गए थे  | थोड़ा आराम लगा तो 29 अक्टूबर को तिल्दा के एक गांव में कार्यक्रम देने चले गए |यह उनके जीवन की  आखिरी  प्रस्तुति थी | गायक, वादक और रंग छत्तीसा के संचालक  सूरज की मौत से कला के पुजारी इस परिवार पर जैसे दुखों का  पहाड़ टूट पड़ा  सूरज बचपन से पिता के नाटक चरणदास चोर को देखते आए थे  |  उन्होंने  हबीब तनवीर के साथ काम किया  | नाटक आगरा बाजार का सैकड़ों शो  भी किये  |   

Dakhal News

Dakhal News 3 November 2019


 लापता बच्ची

  पुलिस पर लापरवाही बरतने का लगा आरोप   रीवा में नौ वी क्लास की एक छात्रा पिछले चार दिन से लापता है  | इस मामले में भी पुलिस ने बच्ची की खोज के लिए कोई प्रयास नहीं किये हैं  | पुलिस की कार्यप्रणाली से नाराज बच्ची के परिजनों ने पुलिस स्टेशन का घेराव किया  |     चार दिन से लापता 9वीं कक्षा की छात्रा आशी द्विवेदी को तलाशने में जब  रीवा पुलिस ने कोई ख़ास मशक्क्त नहीं की तो   उसके  परिजनों ने सिविल लाइन थाने का घेराव किया  सिविल लाईन थाना अंतर्गत भाजपा कार्यालय के पीछे रहने वाली 15 वर्षीय नाबालिक आशी द्विवेदी 20 अक्टूबर को सुबह अचानक   लापता  हो गई | परिजनों ने पुलिस पर  तलाश में ढिलाई बरतने का आरोप लगाते हुए थाने का घेराव किया  |   वहीँ  4 दिन से लापता बच्ची  के परिजन परेशान हैं  | उन्हें आशंका सता रही है कि पुलिस की लापरवाही से बच्ची के साथ कुछ अनहोनी न हो जाए वहीं सिविल लाइन थाना प्रभारी राजकुमार मिश्रा ने बच्ची के परिजनों से कहा कि हमारे पास और भी कार्य रहते हैं | यह सुनकर बच्ची के परिजनों ने  डीआईजी  अविनाश शर्मा के पास जा कर शिकायत दर्ज कराई  | अविनाश शर्मा ने आश्वासन दिया की जल्द ही बच्ची को घर वापस लाया जाएगा  और थाना प्रभारी के द्वारा दिए गए इस अनर्गल बयान की जांच कराई जाएगी  |

Dakhal News

Dakhal News 24 October 2019


tendua kee maut

  तेंदुए के लिए काल बनते जा रहे है हाइवे के ट्रक   लखनादौन - नरसिंहपुर के  बीच आमानाला के पास फोरलेन पर अज्ञात वाहन की टक्कर से तेंदुआ की मौत हो गई  | इसके पूर्व भी इसी फोरलेन पर दो तेंदुआ की मौत हो चुकी है वन अधिकारीयों ने बताया कि वाहन से टकराकर ही तेंदुए की मौत हुई है  |   सिवनी के पास फोरलेन सड़क पर फिर एक तेंदुआ मारा गया है  |वन परिक्षेत्र अधिकारी दिनेश यादव ने घटना की पुष्टि  की और बताया वन अमला मौके पर पहुंचा और घटना का जायजा लिया | बीती रात  इस दुर्घटना के बाद सुबह पशु चिकित्सा दल की टीम घटना  पहुंची और मौका मुआयना किया और  तेंदुए की मौत का कारन किसी भारी वाहन से टकराने को बताया  | इसी इलाके में ये इस तरह तेंदुए की मौत की तीसरी घटना है  | वहीं दूसरी ओर लगातार वन्यजीवों की  मौत के विरुद्ध मंगवानी वन विभाग के डिपो के सामने समाजसेवियों के धरना प्रदर्शन किया  | आंदोलनकारियों का कहना है कि वन्यजीवों की सुरक्षा में वन विभाग पूरी तरह से नाकाम है  |  यह तीसरी घटना है जब सड़क दुर्घटना में तेंदुआ की मौत हुई है और वन विभाग इस दिशा में कोई कारगर पहल नहीं कर पा रहा है  |  

Dakhal News

Dakhal News 23 October 2019


आफत में धान

  एक चक्रवात ने पूरे छत्तीसगढ़ को भिगोया   एक चक्रवात ने पूरे छत्तीसगढ़ को भिगो दिया है | बारिश ख़त्म होने के बाद की इस बारिश और मौसम से धान की फसल पर आफत के बादल मंडरा रहे हैं   उत्तर प्रदेश के ऊपर  बना चक्रवाती घेरा इतना प्रभावशाली है कि उसने पूरे छत्तीसगढ़  को तरबतर कर दिया है  |  प्रदेश का कोई भी जिला ऐसा नहीं हैं, जहां पर मध्यम से भारी और हल्की बूंदाबांदी न हुई हो  | शनिवार और रविवार को कई इलाकों म हुई बारिश से धान का किसान परेशान है  इस मौसम ने धान के खेतों पर संकट के बादल ला दिए हैं  मौसम विभाग ने शनिवार को ही पूर्वानुमान जारी कर दिया था कि शाम होते होते बादल छाएंगे और बरसेंगे   |  प्रदेश का मौसम बदलना शुरू हुआ और देखते ही देखते काले घने बादलों ने डेरा जमा लिया  | उसके बाद बारिश ने छत्तीसगढ़ की धरती को भिगो दिया  | मौसम विभाग यह भी कह रहा है कि पूर्वी हवा जब तक आती रहेंगी, तब तक बारिश होती रहेगी  | धमतरी से लेकर डोंगरगढ़ तक फसल तेज हवा और मूसलाधार बारिश के कारण जमीन पर लोट गई  |  बेमेतरा जिले में कमोबेश यही स्थिति सोयाबीन फसल की है  | बालोद जिले के दल्ली राजहरा में बारिश से तीन कच्चे मकान ढह गए  | इधर दुर्ग और भिलाई में शाम को झमाझम बारिश के कारण बाजार क्षेत्रों के अलावा तमाम प्रमुख चौराहों पर भी पानी भर गया  इस बारिश से धान की सूख रही फसल एक बार फिर खतरे में आ गई  | इस कारण छत्तीसगढ़ के किसान बेहद परेशान हैं किसानों का कहना है अगर बारिश का दौर ऐसा ही चला तो धान की फसल बर्बाद हो जाएगी  |   

Dakhal News

Dakhal News 21 October 2019


लक्ष्मी नगदी

  नगदी और श्रृंगार सामग्री में में इस वर्ष कमी   रतलाम के महालक्ष्मी मंदिर को सजाने के लिए हर साल लोग अपनी नगदी और श्रृंगार सामग्री देते हैं | इस बार इस नगदी  और श्रृंगार में कमी आई है | लोगों ने मंदिर में अपनी नगदी जमा करवाना शुरू कर दिया है |   माणकचौक स्थित महालक्ष्मी मंदिर में श्रृंगार व सजावट की तैयारियां तो शुरू हो गई हैं | लेकिन इस बार भक्तों द्वारा दी जाने वाली सामग्री और नगदी में कमी आई है | जो भक्त राशि दे रहे हैं, वह 50 हजार से कम ही है, जबकि पिछली बार 42 लोगों ने 50 हजार से अधिक की राशि मंदिर में दी थी | पांच दिवसीय दीप पर्व पर मंदिर की सजावट इस बार प्रशासन की निगरानी में होगी | मंदिर में राशि आने का सिलसिला शुरू हुआ है, लेकिन धीमी गति से एक हजार से लेकर 21 व 31 हजार रुपए तक की राशि दी गई | इंदौर व झाबुआ के भक्त मंदिर में 1.79 लाख रुपए देकर चले गए हैं |  न्यू रेलवे कॉलोनी में रहने वाली ओमप्रकाश गुर्जर व हेमलता गुर्जर दो साल से मंदिर में नगदी जमा करते आ रहे हैं |  तीसरी बार भी शनिवार को एक हजार रुपए सजावट के लिए दिए | इनका कहना था कि घर में सुख-समृद्धि की कामना को लेकर राशि देते हैं | इंद्रलोक नगर में रहने वाल बुजुर्ग सत्यनारायण अरोरा ने 10 रुपए की एक गड्डी दी  इनका कहना था कि  ऐसा करने से मन को शांति मिलती है। ..  इस बहाने महालक्ष्मी की शरण में आने का मौका मिल जाता है | प्रशासन की तरफ से मंदिर में आठ सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं | गर्भगृह से लेकर परिसर व मंदिर के बाहर भी कैमरे लगाए गए हैं | इनकी डीवीआर माणकचौक पुलिस थाना में रहेगी  शनिवार को 96500 रुपए मंदिर की सजावट के लिए आए |  इसके पहले मंदिर में 1.99 लाख रुपए आ चुके हैं | प्रशासन भी प्रतिदिन मंदिर में नोटों की जानकारी मंदिर के पुजारी से ले रहा है |

Dakhal News

Dakhal News 20 October 2019


धमाका

  घर में अवैध तरीके से  बना रहे थे पटाखे   शिवपुरी के बैराड़ में  देर रात अवैध रूप से पटाखे बनाते वक्त एक मकान के भीतर धमाका हो गया | धमाका इतना जोरदार था कि मकान की छत हवा में उड़ गई   वहीं घर की दीवार भी धराशायी हो गई | ब्लास्ट के वक्त घर में तीन लोग थे | जो धमाके की वजह से गंभीर रूप से घायल हो गए |   दीवाली से पहले घर में अवैध तरीके से पटाखे बनाना एक शख्स को महँगा पड़ गया  बैराड़ में आजाद खान चोरी छिपे अपने घर में पटाखे बना रहा था उसी समय घर में विस्फोट हो गया  इस घटना में घायल हुए  सभी लोगों  को प्राथमिक उपचार के लिए बैराड़ के अस्पताल में भर्ती कराया गया | जहां मकान मालिक आजाद खान की हालत बिगड़ने पर उसे शिवपुरी रैफर किया गया | इस घटना में आजाद की पत्नी रुखसाना और बेटा इसराइल भी गंभीर रूप से घायल हुए हैं | इनके सिर में चोट लगी है | वो तो गनीमत रही कि घर में ज्यादा बारूद नहीं रखा था | वरना नुकसान ज्यादा होता | घटना की जानकारी मिलते ही रात में पुलिस मौके पर पहुंचीं और घर से अवैध रूप से पटाखा बनाने में इस्तेमाल होने वाला बारूद के अलावा बाकी सामान जब्त किया इस  इलाके के कई घरों में ऐसे ही अवैध रूप से पटाखे बनाने का काम होता है | यहाँ  पहले भी इस तरह के कई हादसे हो चुके हैं | इसके बाद कुछ दिनों तक तो सख्ती रहती है |  फिर लोग अपनी जान जोखिम में डालकर इसी धंधे में जुट जाते हैं दिवाली के वक्त ये काम और बढ़ जाता है  पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और जिस घर में ये धमाका हुआ है | उसके आस-पास के भी कई मकानों में जांच की है|  ताकि दोबारा ऐसी वारदात न हो |  

Dakhal News

Dakhal News 17 October 2019


 सड़क निर्माण

  मंत्रियों ने अधिकारियों से जानकारी तक नहीं ली गड्डे भरवाए ,थोड़ी देर में सड़क फिर खराब हुई   मध्यप्रदेश में सड़कों के गड्ढों पर सियासत हो रही है | कमलनाथ सरकार के मंत्री भी मस्ती में हैं  | PWD मंत्री सज्जन वर्मा और जनसम्पर्क मंत्री पीसी शर्मा ने भी गड्ढों के साथ फोटो खिचवाये और कुछ गड्ढों को ठीक करवाया जो कुछ देर बाद ही उखाड़ना शुरू हो गए  |सज्जन वर्मा ने कहा कि शिवराज की अमेरिका जैसी सड़कें उनके भ्रस्टाचार के कारण गढ्ढो में बदल गई है  | वहीँ जन्समार्क मंत्री ने सड़कों को लेकर कहा कि ये   कैलाश विजयवर्गीय के गालों  जैसी हो गई हैं  |   मध्यप्रदेश में सड़कों की अनदेखी के कारण सड़कें गढ्ढों में तब्दील हो गई हैं  पिछले दस महीने में कमल नाथ सरकार ने सड़कों के रख रखाव पर ध्यान ही नहीं दिया  |ऐसे में रही सही कसर बारिश ने पूरी कर दी  | कमलनाथ के मंत्री काम करने की बजाये सड़कों की दुर्दशा के लिए पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को कोसते नजर आये  ... मध्यप्रदेश की  बदहाल सड़कों पर अब  सियासत  हो रही है  | सबसे पहले भोपाल  में  मंत्री और अधिकारियों ने शहर का  जायजा लिया  गड्ढों में फोटो खिंचवाने में व्यस्त मंत्रियों ने गड्ढों में तब्दील हो चुकी सड़कों की सुध या सुधार कार्य की जानकारी तक अधिकारियों से नहीं ली  |  पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा व जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने शहर में बदहाल सड़कों के निरीक्षण के दौरान जमकर  पूर्व की शिवराज सरकार पर निशाना साधा  | पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा और जनसम्पर्क मंत्री पीसी शर्मा  कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अमेरिका | तो भाजपा नेता हेमा मालिनी की तरह प्रदेश में सुंदर सड़कें होने का दावा करते थे, लेकिन सड़क निर्माण में धांधली के कारण प्रदेश की सड़कों की हालत कैलाश विजयवर्गीय के चेहरे की तरह हो गई है  |   मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने प्रदेश में खस्ता सड़कों का जिम्मेदार  पूर्व की  सरकार को बताया | उन्होंने कहा कि प्रदेश में खस्ता सड़कों की स्थिति का कारण इनके निर्माण में हुआ भ्रष्टाचार है  | भाजपा शासन में इन सड़कों का निर्माण कराया गया था | अब इनकी जांच कराई जाएगी | इस आधार पर इनकी शिकायत ईओडब्ल्यू में भी दर्ज कराई जाएगी  ..मंत्रियों के निरीक्षण की भनक लगते ही सड़क का सुधार कार्य  शुरू कर दिया | पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जन सिंह ने बताया कि सड़कों के सुधार के लिए केंद्र से आर्थिक सहायता राज्य सरकार ने मांगी थी, लेकिन केंद्र सरकार मदद नहीं मिली है |  

Dakhal News

Dakhal News 16 October 2019


maut

  सड़क के किनारे खदान में की जा रही थी ब्लास्टिंग   क्रेशर की खदान में ब्लास्टिंग से पत्थर तोड़े जा रहे थे  तभी खदान से उछला पत्थर हाइवे से जा रही कार की छत से  टीन फाड़ते हुए  कार चला रहे  बैंक मैनेजर  के सिर में घुस गया  जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई |   कहते है होनी को कोई नहीं टाल सकता | ऐसा ही एक वाक़्या बैतूल के  मुलताई थाना क्षेत्र के उभारिया गांव में हुआ  जहाँ खदान में क्रेशर से पत्थर तोड़े  जा रहे थे | तभी एक पत्थर उछलकर एक कार की छत से सीधे  कार चालक के सिर में जा घुसा जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई  कार एक बैंक का मैनेजर चला रहा था  मैनेजर के साथ उनके साथी भी कार में बैठे हुए थे  हादसे के बाद किसी को भी विश्वास नहीं हुआ  की ऐसे भी मौत आ सकती है  बैंक मैनेजर के सिर में पत्थर लगाने के बाद  उनके बगल में बैठे मित्र ने जैसे तैसे कार संभाली और कार को खेत में नीचे उतार दिया  जिससे बड़ा हादसा होने से टल गया  बताया जा रहा है की  इंडस बैंक बैतूल में कार्यरत होशंगाबाद निवासी अशोक वर्मा मुलताई जा रहे थे  | बैतूल-नागपुर फोरलेन के नदीक उभारिया ग्राम में  अल्वी क्रेशर की खदान में ब्लास्टिंग से पत्थर तोड़े जा रहे थे  | इसी दौरान यह हादसा हुआ  पुलिस ने केस दर्ज कर स्टोन क्रैशर को सील कर दिया है |  

Dakhal News

Dakhal News 15 October 2019


Carry Your Own Bag

   स्व सहायता समूहों को मिलेगा स्वरोजगार   भोपाल नगर निगम द्वारा शहर से प्लास्टिक का उपयोग रोकने के लिए चलाए जा रहे 'से नो टू प्लास्टिक' के तहत कैरी-यॉर-ऑन बैग अभियान प्रदेश के सभी नगरीय निकायों में लागू होगा  | राज्य सरकार ने इसके आदेश जारी कर दिए हैं  |  नगर निगम अभियान के तहत प्लास्टिक का उपयोग रोकने के लिए कपड़े के बैग बांट रहा है  |   मध्यप्रदेश में लागू होगा, कैरी यॉर ऑन बैग  अभियान चलाया जाएगा  | अब तक भोपाल में इसके तहत  15 हजार बैग बांटे जा चुके हैं कपड़े के बैग बनाने के लिए महिलाओं की स्व सहायता समूहों को स्वरोजगार दिया जा रहा है  | इन समूहों ने  पुराने कपड़ों से बैग सिलना शुरू कर दिया है  | पुराने कपड़ों के कलेक्शन के लिए नगर निगम ने सभी जोन कार्यालयों में कपड़ा कलेक्शन बैंक  की व्यवस्था की गई है | साथ ही कियोस्क सेंटर से लोग पुराने कपड़े देकर निशुल्क बैग सिलवा सकते हैं  | लोगों और व्यापारियों को प्लास्टिक के प्रति जागरूक करने के लिए निगम अमला व एनजीओ मिलकर काम कर रहे हैं लोगों को प्लास्टिक से होने वाले नुकसान की जानकारी दी जा रही है  | नगर निगम के अपर आयुक्त राजेश राठौर ने बताया कि कुछ एनजीओ और संस्थाएं खुद ही कपड़े के बैग बांट रहे हैं | नगर निगम ने भोपाल के बड़े तालाब को प्लास्टिक फ्री जोन बनाया है  | लोगों की सुविधा के लिए कियोस्क सेंटर खोला  है, जहां पांच रुपए में कपड़े के बैग दिए जा रहे हैं  | बैग वापस करने पर यह राशि वापस करने की व्यवस्था की गई है  यहां शहर के हर हिस्से से लोग घूमने फिरने के लिए आते हैं, इसलिए इस जगह को प्लास्टिक फ्री किए जाने से लोगों को प्लास्टिक के अभियान से रूबरू हो रहे हैं इसी तरह न्यूमार्केट को प्लास्टिक फ्री बनाने के लिए अभियान शुरू किया गया है  | जहां दुकानदारों को प्लास्टिक बैग का उपयोग न करने के लिए समझाइश दी जा रही है |   

Dakhal News

Dakhal News 9 October 2019


हाथी छत्तीसगढ़

  खेतों में घुसा था उत्पाती हाथियों का दल उत्तर छत्तीसगढ़ के राजपुर क्षेत्र में उत्पात मचाने के बाद 15 हाथियों का दल प्रतापपुर वन परिक्षेत्र में प्रवेश कर गया  हाथी बस्ती के पास पहुंचे तो गांव में अफरा-तफरी का माहौल बन गया  | ग्रामीण एकजुट हुए और एक सुर में हल्ला मचाना शुरू किया  इससे हाथियों का झुंड डर कर  बिना कोई नुकसान पहुंचाए निकल गया  | ग्रामीणों ने बताया कि हाथी जिस रूट से आगे बढ़ रहे थे, उसके अगल-बगल में रहने वाले लोग घर छोड़कर भाग निकले  हाथियों ने बस्ती के किनारे खेतों में डेरा डाल दिया था  | इस दौरान सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण हल्ला बोलकर हाथियों को असुरक्षित तरीके से खदेड़ने के प्रयास में लगे रहे  इस नजारे को देख वन विभाग का अमला भी सकते में आ गया था  | लेकिन इस घटनाक्रम में कोई जनहानि नहीं हुई जिससे सभी ने राहत की सांस ली  हाथियों के पुनः राजपुर वन परिक्षेत्र में प्रवेश करने की संभावना को देखते हुए सीमावर्ती गांवों में अलर्ट कर दिया गया है  | वन विभाग के मैदानी कर्मचारी हाथियों की निगरानी में लगे हुए हैं  | लगभग 15 दिनों तक सेटेलाइट कॉलर आईडी लगे प्यारे हाथी  के  दल ने राजपुर रेंज में उत्पात मचाया  था  | कोशिश की जा रही  है  कि जिस रूट से हाथियों का दल राजपुर रेंज में घुसा है, उसी रूट से उन्हें वापस ले जाया जाए इस अभियान में सफलता तो मिल गई, लेकिन हाथियों का दल अभी भी राजपुर और सीमावर्ती प्रतापपुर रेंज के गांव में ही है |  

Dakhal News

Dakhal News 8 October 2019


धुनुची नृत्य

  माँ की आरधना में धुनुची  नृत्य ने समां बांधा   नौलखा स्थित बंगाली क्लब में पांच दिनी दुर्गा पूजा महोत्सव में  महिलाओं ने धुनुची नृत्य करते हुए माता की आराधना की  | शक्ति की उपासना के नौ दिनी नवरात्र पर्व का उल्लास अब चरम पर है  देवी की विदाई के साथ नवरात्र पर्व संपंन्न हो गया  |    अष्टमी और नवमी पर श्रद्धालुओं का उत्साग दोगुना  हो गया  | नवमी पूजन कर घट विसर्जित किए गए पश्चिम क्षेत्र स्थित महू नाका चौराहे से कलश यात्रा निकाली गई इसमें महिलाएं कलश लेकर चल रही थीं  | भजनों पर थिरकने का सिलसिला चल रहा था बंगाली परिवार के तत्वावधान में सिलिकॉन सिटी राऊ के बंगाली परिवार के सदस्यों ने दुर्गा पूजा की  | पूजन की शुरुआत वरिष्ठ नागरिक शांति चरण के हाथों हुई  नौलखा स्थित बंगाली क्लब में पांच दिनी दुर्गा पूजा महोत्सव में  महिलाओं ने धुनुची नृत्य करते हुए माता की आराधना की  | बंगाल में माँ की आराधना में धुनुची नृत्य का अपना ही महत्त्व है |

Dakhal News

Dakhal News 7 October 2019


किसान  आत्महत्या

  दो लाख नहीं मिले किसान ने की खुदकशी फसल बर्बाद होने से परेशान था किसान   मुख्यमंत्री कमलनाथ जी  आपकी दस दिन में कर्जमाफी की बात झूठ साबित हो रही है  | आपकी सरकार की कर्ज माफ़ी की घोषणा के बाद भी कर्ज माफ़ नहीं  होने से एक किसान बेहद परेशान था  | ऐसे में अति वर्षा ने उसकी फसल चौपट कर दी  किसान को जब कुछ समझ नहीं आया तो उसने अपने खेत में फांसी लगा कर जान दे दी |    एक तरफ किसानों का कर्ज माफ़ नहीं हुआ है दूसरी तरफ अतिवर्षा ने फसलें चौपट कर दी हैं | ऐसे में भी राज्य सरकार अब तक किसानों के पास राहत नहीं पहुंचा रही है  | इन सारे हालातों से परेशान हो कर एक किसान ने खुदकशी कर ली  इस किसान पर काफी कर्जा था उसे लगा दो लाख का कर्ज सरकार माफ़ कर ही देगी   बाकी वह मेहनत से फसल खड़ी कर पैसा कमायेगा और सब का कर्ज चुका देगा लेकिन कमलनाथ सरकार की कर्ज माफ़ी की बात इस किसान के लिए झूठ का पुलंदा साबित हुई  | और रही सही कसार अतिवर्षा ने पूरी कर दी  | लिहाजा इस किसान ने अपने खेत में  पेड़ पर फंदा डालकर फांसी लगा ली  |  रायसेन जिले के बेगमगंज के तुलसीपुर में  किसान वीरेंद्र सिंह ने अपने खेत में  पेड़ से लटककर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली  | मृतक के भाई सुरेश यादव ने बताया कि उनके भाई   वीरेंद्र सिंह यादव  पिछले कुछ दिनों से अपने खेत में बर्बाद फसल को देख परेशान था  | उनका दो लाख का कर्ज भी माफ़ नहीं हुआ था पुलिस ने इस मामले मार्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है  |  

Dakhal News

Dakhal News 6 October 2019


ट्रेन -जान बची

  जान पर खेलकर एक शख्स ने मचाई जान   जल्दबाजी कई बार मुसीबत का सबब बन जाती है  | भोपाल रेलवे स्टेशन पर चलती ट्रेन में चढ़ रही  युवती  का पैर स्लिप हो गया  वह ट्रेन के नीचे गिरती उससे पहले ही कुछ लोगों ने समय रहते उसे बचा लिया  | भोपाल रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर चार  पर  चलती ट्रेन में दौड़कर चढ़ रही एक युवती का पैर फिसल गया  | वह ट्रेन से गिरने वाली थी कि कुछ लोगों ने दौड़कर उसे बचा लिया  ..संतुलन बिगड़ने के कारण वह ट्रेन व प्लेटफार्म के बीच  आ गई थी  |  युवती को बिल्कुल भी चोट नहीं आई है  युवती का नाम मुस्कान (19) है |  वह भोपाल के जहांगीराबाद की रहने वाली है  | बिलासपुर जाने के लिए ट्रेन के बी-2 कोच में चढ़ रही थी तभी यह घटना हुई  ये पूरी घटना रेलवे स्टेशन के सीसीटीवी में कैद हो गई  |  उसमें साफ नजर आ रहा है कि धीरे-धीरे ट्रेन रफ्तार पकड़ती जा रही है  | तभी एक लड़की दौड़ते हुए ट्रेन में चढ़ने की कोशिश करती है  | लेकिन रफ्तार ज्यादा होने के चलते उसका संतुलन बिगड़ जाता है और उसका पैर फिसल जाता है  | स्टेशन पर खड़े कुछ लोगों ने उसे देख लिया  ये  लोगों  बिना एक पल गंवाए वो लड़की की तरफ दौड़े और उसे एक झटके में ट्रेन से खींच लिया  |  इसी दौरान कुछ और लोग भी दौड़े-दौड़े आए और लड़की को सकुशल प्लेटफॉर्म पर खींच  लिया  |

Dakhal News

Dakhal News 4 October 2019


Navratri  दंतेश्वरी माँ

  कोई लुढ़कते हुए ,कोई पहुंच रहा है घुटनों के बल नवरात्री में माईजी यानि दंतेश्‍वरी देवी के दर्शन के लिए श्रद्धालु दूर-दूर से दंतेवाड़ा पहुंच रहे हैं | इनमें कुछ भक्त ऐसे भी है, जो मन्नत पूरी होने पर कृतज्ञता जताने घुटने के बल या फिर सड़क पर लुढ़कते हुए और लेटकर माँ के दरबार में पहुँच रहे हैं | माईजी के दरबार में श्रद्धालुओं  की आस्था हर दिन बढ़ रही है | श्री दंतेश्वरी शक्तिपीठ में नवरात्र के अवसर पर श्रद्धालुओं की बड़ी भीड़ रहती है | सुबह  विशेष श्रृंगार और मंत्रोचार के साथ पूजा संपन्न्  होती है | इसके साथ ही दिन भर श्रद्धालुओं का रेला मंदिर में लगा रहा है | श्रद्धालुओं में कुछ ऐसे भी हैं  जो मनोकामना पूर्ण होने पर कृतज्ञता जताने लेटकर  |  लुढ़कते हुए  पेट के बल सरककर तो घुटने टेकते माई के दरबार में पहुंचे रहे हैं |   इनमें अधिकांश अधिकांश गीदम से घुटने के बल या सड़क पर लुढ़कते माई के दरबार में पहुंच रहे हैं | इनके साथ उनके कुछ सहयोगी भी है जो रास्‍ते में पड़े धूल- कंकड़ को साफ कर रहे हैं |  खराब और उखड़ी सड़कें  श्रद्धालुओं को चुनौती दे रही हैं | लेकिन माईजी का अगाध प्रेम और आस्‍था के बीच यह दर्द सहते हुए  वे मुस्‍कुराते आगे बढ रहे  हैं | जगदलपुर, बीजापुर के ये श्रद्धालु गीदम पहुंचने के बाद दंतेवाड़ा के लिए रवाना  होते  हैं |  इस सब को देखते हुए प्रशासन ने नवरात्र पर जगदलपुर, बीजापुर से दंतेवाड़ा की ओर आने वाले सभी वाहनों की रफ्तार नियंत्रित रखने के निर्देश दिए हैं |   

Dakhal News

Dakhal News 3 October 2019


बस गिरी ,सात मरे

  7 यात्रियों की मौत,36 यात्री  घायल   भोपाल से छतरपुर जा रही यात्री बस देर रात  रीछन नदी के पुल से नीचे गिर गई थी  |  इस हादसे में सात लोगों की मौत हो गई है वहीं तीन दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं  | इस हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों को प्रदेश सरकार ने 4-4 लाख रुपए का मुआवजा देने का ऐलान किया है |   भोपाल से छतरपुर जा रही यात्री बस रायसेन से पहले दरगाह के पास रीछन नदी के पुल से नदी में गिर गई  यह हादसा रात डेढ़ बजे के करीब हुआ  इस हादसे में सात यात्रियों की मौत की पुष्टि हुई है  | लेकिन उनकी शिनाख्त नहीं हो पाई है, जबकि तीन दर्जन से ज्यादा लोगों के घायल होने की जानकारी है |कोतवाली पुलिस के मुताबिक छतरपुर जा रही बस पुल पर पहुंचने से पहले अनियंत्रित होकर नदी में जा गिरी  | रात होने की वजह से अधिकतर यात्री नींद में थे  | बस के गिरते ही चीखपुकार मच गई  |  जिसे सुनकर स्थानीय लोग मदद के लिए तत्काल मौके पर पहुंच गए  | वहीं लोगों ने पुलिस को सूचित किया जिस पर कोतवाली पुलिस बस व एसडीआरएफ की टीम भी राहत के लिए तत्काल मौके पर पहुंच गई  | रात ढाई बजे तक सात यात्रियों के शव नदी में आधी डूबी बस से निकाले जा चुके थे  | वहीं 3 दर्जन से ज्यादा घायल यात्रियों को बस से निकालकर इलाज के लिए विभिन्न वाहनों से रायसेन जिला अस्पताल भेजा गया  | घायलों में कुछ यात्रियों की स्थिति गंभीर है   | बताया जा रहा है कि यहां पुलिया के पास एक गड्ढा है, इसमें तेज रफ्तार बस का बैलेंस बिगड़ गया और वह ब्रिज की रेलिंग तोड़ते हुए सीधे उफनती हुई नदी में जा गिरी  | हादसे में कुछ यात्रियों के पानी में बहने की बात भी सामने आ रही है  | हादसे में यात्रियों को बचाने के लिए पानी में उतरी रेस्क्यू टीम को अंधेरे में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा  | बस में फंसे यात्रियों को निकालने में टीम के कुछ सदस्यों को बस की खिड़की के कांच भी लग गए  बस को रस्सी के सहारे खींचकर सीधा किया गया और फिर यात्रियों को रस्सी के जरिए लाइफ जैकेट पहनाकर बाहर निकाला गया  | रेडक्रॉस से  फौरी मदद के तौर पर मृतकों के परिजनों को 10-10 हजार रुपए की आर्थिक सहायता  दी जा रही है |वहीं दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को साढ़े सात हजार रुपए और घायलों को पांच-पांच हजार रुपए की सहायता राशि दी  गई  | आज सुबह प्रदेश के शिक्षा मंत्री प्रभुराम चौधऱी घायलों से मिलने रायसेन अस्पताल पहुंचे और उन्होंने बताया मृतकों के परिजनों को शासन चार चार लाख रुपये की आर्थिक मदद देगा  |  

Dakhal News

Dakhal News 3 October 2019


Navratri गरबा

  बरसते पानी में  उत्साह और श्रद्धा के साथ गरबे किए   नवरात्र के मौके पर रतलाम में बारिश के बीच भी माँ की आराधना में गरबे किये जा रहे हैं | तड़के और संध्या के समय कलिका माता मंदिर प्रांगण में पारम्परिक गरबा किया जाता है | बरसते पानी में भी यह गरबे जारी रहते हैं |    रतलाम का प्राचीन और ऐतिहासिक श्री कालिका माता मंदिर इन दिनों आकर्षण का केंद्र बना हुआ है |  यहां प्रतिदिन दर्शनाें और पूजा अर्चना के लिए तो श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ता ही है लेकिन नवरात्रि के दिनों में यहां का माहौल दर्शनीय रहता है | यहां सुबह और शाम दोनों समय गरबे होते हैं | इंद्रदेवता की मेहरबानी के बीच बरसते पानी में भी बालिकाओं के उत्साह में कमी नहीं आई और  पूरे उत्साह और श्रद्धा के साथ गरबे किए  कालिका माता मंदिर जन-जन की आस्था और श्रद्घा का केंद्र है |  यहां वर्षों से सुबह और रात में गरबारास का आयोजन हो रहा है |  इसमें बड़ी संख्या में बालिकाएं, युवतियां और महिलाएं गरबारास कर मां दुर्गा की आराधना कर रही हैं | सुबह बरसते पानी में युवतियों और महिलाओं ने गरबारास कर शक्ति की भक्ति का परिचय दिया |     

Dakhal News

Dakhal News 3 October 2019


किसानों के गले मे स्लेट

किसान के गले में स्लेट डालकर खींचा फोटो  अतिवृष्टि से परेशान किसानों  के साथ अब कमलनाथ सरकार के अधिकारी भी अपराधियों जैसा व्यवहार कर रहे | किसानो के गले में स्लेट लगाकर बर्बाद फसल का सर्वे कर किसानो के फोटो लिए जा रहे हैं |  कृषि मंत्री ने इस पर आपत्ति जाहिर की है लेकिन  अधिकारी सरकार की फजीहत कराने में लगे हुए है |      अतिवृष्टि के कारण प्रदेश में किसान परेशान है  कमलनाथ सरकार ने सर्वे के अधिकारीयों को निर्देश  दिए है | लेकिन अधिकारी फसल का सर्वे ऐसे कर रहे है जैसे यह प्राकृतिक आपदा ना हो के किसानो  ने कोई  अपराध किया है विदिशा में तहसीलदार के फरमान से किसान खुद को अपराधियों जैसा महसूस कर रहा  है | यहाँ  किसानों के गले मे स्लेट लगाकर | बर्बाद फसल का सर्वे कर किसानों के फोटो लिये जा रहे है | आप तस्वीरों में साफ़ तौर पर देख सकते है की सर्वे के नाम पर  किस तरह कमलनाथ सरकार में  अधिकारी  किसानो के साथ अपराधियों जैसा व्यवहार कर रहे |  गले में लिखी हुई  स्लेट डालकर फोटो लिए जा रहे  किसानो के पुरजोर विरोध के बाद .अधिकारीयों ने ये बेहुदा कार्यवाई रोकी  और आदेश वापस लिया | कमलनाथ सरकार में अधिकारी रोज नए नियम लेकर आते है  जो सरकार की फजीहत का कारण  बन जाते है | बताया जा रहा है कृषि मंत्री सचिन यादव ने इस पर आपत्ति जाहिर करर थी उसके बाद भी अधिकारीयों का यह ड्रामा जारी रहा |   

Dakhal News

Dakhal News 2 October 2019


road accident

  मांडू रोड पर धरावरा फाटा के पास हुआ हादसा   धार में मांडू रोड पर सामने से आ रहे ट्रक से बाइक की जबर्दस्त भिड़ंत हो गई  | बाइक सवार टकराकर 10 फीट दूर जाकर गिरे  |  सिर में चोट लगने से मामा-भानजा सहित तीन की मौके पर ही मौत हो गई  शवों को पिकअप वाहन से जिला अस्पताल लाया ले जाया गया  |  पुलिस ने ट्रक को जब्त कर  ट्रक चालक के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है |   बाइक सवार तीनों लोग रिश्तेदार थे | वे धार  के केसरपुरा से पिपलीमाला जा रहे थे  | इसी दौरान दोपहर में उनकी बाइक धरावरा फाटे पर सामने से आ रहे ट्रक से भिड़ गई  इस जबर्दस्त भिड़ंत में तीनों दस फुट दूर जा कर गिरे  | सिर में चोट लगने से तीनों की मौके पर ही मौत हो गई  | मौके पर कोतवाली पुलिस ने तीनों के शव को वाहन से जिला अस्पताल भिजवाया  कोतवाली थाना प्रभारी सुबोध श्रोत्रिय ने बताया कि तीन लोगों की मौत  घटना स्थल पर ही हो चुकी थी  ट्रक को जब्त कर लिया गया है  | केसरपुरा गांव के लागों ने सुबह मांगीलाल और सरवन को मजदूरी करने के लिए कहा था  | लेकिन उन्होंने मना कर दिया  |  मांगीलाल ने भानजे अक्षय से कहा कि मैं बाइक में पेट्रोल डलवा देता हूं, बेटी की शादी की प्लानिंग को लेकर पिपलीमाल चलना है  | तीनों बाइक से  पिपलीमाल के लिए निकले थे  तभी यह हादसा हो गया  |   

Dakhal News

Dakhal News 2 October 2019


बाढ़ पूर्वी भारत

  उत्तरप्रदेश और बिहार में बिगड़े हालात   मानसून की विदाई के वक्त पूर्वी भारत सहित देश के कई इलाकों में भारी बारिश कहर बरपा रही है | उत्तर प्रदेश और बिहार में लगातार बारिश ने हालत खराब कर दिए है | पूर्वी भारत में अब तक बारिश की वजह से 110 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है |  बिहार में भी भारी बारिश से जनजीवन पूरी तरह से अस्त व्यस्त हो गया है बिहार की राजधानी पटना में नाव के जरिये लोगों को रेस्क्यू किया गया |     बिहार में बारिश से बिगड़ रही स्थिति के बाद सरकार ने बाढ़ राहत कार्य के लिए भारतीय वायुसेना से 2 हैलीकॉप्टर मांगे हैं | नेशनल डिजास्टर रिस्पॉस फोर्स द्वारा  लगातार बचाव कार्य किया जा रहा है  | यूपी ,एमपी, गुजरात सहित अन्य राज्यों में भी मानसून जाते जाते अपना असर दिखा रहा है  बिहार में बारिश ने किस कदर अपना रौद्र रुप दिखाया है, इसका इसी बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि प्रदेश की राजधानी पटना में नाव के जरिये लोगों का रेस्क्यू किया जा रहा है  एनडीआरएफ की टीम बचाव कार्य में जुटी हुई है | उत्तर प्रदेश में भी भारी बारिश ने जिंदगी को बेपटरी कर डाला है | यहां बिगड़ रहे हालातों के बाद यूपी सरकार द्वारा सभी सरकारी कर्मचारियों की छुट्टियां निरस्त कर दी गई है | बाढ़ग्रस्त इलाकों से पानी को पंपों की मदद से निकाला जा रहा है | बाढ़ग्रस्त इलाकों में प्रशासन द्वारा राहत सामग्री पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है | 

Dakhal News

Dakhal News 30 September 2019


bada hadsa

  करेंट लगने से 1 की मौत,4 बुरी तरह झुलसे     भोपाल टॉकीज  के पास चैंबर में फंसे एक डंपर को निकालने पहुंची क्रेन हाईटेंशन लाइन से जा टकराई  | जिसके बाद क्रेन में करंट फैल गया  इस हादसे में एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई  जबकि चार लोग बुरी तरह झुलस गए  |   भोपाल टाकीज़ स्थित बाल बिहार पार्क के पास एक बड़ा हादसा हो गया  गिट्टी से भरे एक  डंपर का पिछला पहिया सीवेज टैंक में  फंस गया  |  जिसको  निकालने के लिए एक क्रेन बुलाई गई   |  क्रेन डम्पर को निकालने का प्रयास कर रही थी कि उसका अगला हिस्सा ऊपर से गुजर रही 11 केवी की हाईटेंशन लाइन से जा टकराया  | हाईटेंशन लाइन से टकराने के कारण पूरी क्रेन में करंट फ़ैल गया करेंट इतना तेज था की क्रेन का एक टायर फट गया  |  और उसके झटके से क्रेन में बैठा ड्राइवर क्रेन से बाहर नाली में जा  गिरा  |  मदद के लिए आये राशिद और बाबू भाई उसे नाली से बाहर निकाल ही रहे थे कि   ...  वे भी करंट की चपेट मेें आ गए  इस हादसे में दीपक, राशिद, बाबू, गुड्डू और दिलीप बुरी तरह झुलस गए  उन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया  ...इनमे से  राशिद की हालत गंभीर बनी हुई है  | यह लगभग 30 प्रतिशत झुलस गया है  | जबकी  बाहर से निर्देश दे रहे अनस नामक व्यक्ति की  करंट लगने से मौके पर ही मौत हो गई   पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है  | 

Dakhal News

Dakhal News 30 September 2019


कार गिरी

  कार गिरने से वाहन चालक को आई चोट   हरदा जिले के ग्राम कुकरावद में एक कार अनियंत्रित हो कर मटकुल नदी में जा गिरी  इस हादसे में कार चालक बुरी तरह जख्मी हो गया है  | हादसे के वक्त कार में सिर्फ कार चालक ही था  |    कुकरावद स्थिति मटकुल नदी के पुल से अचानक एक कार नीचे गिर गई गनीमत यह रही कि जिस समय हादसा हुआ कार में चालक के अलावा कोई नही था | चालक को मामूली चोट आई है  |  बारिश के दिनो में पानी पुल के ऊपर आ जाता है और जब नदी का पानी कम होता है तो पुल के ऊपर किचड़ जमा हो गया है  | जिसकी वजह से कार स्लिप हो कर नदी में जा गिरी नदी के पुल की हाइट कम होने और रैलिंग ना होने की वजह से इस पुल पर रोजाना इस तरह की घटनाएं होती रहती हैं  |  वही  सरपंच बलराम पाटिल ने  बताया गया कि पुल की हाइट बढ़ाने व रैलिंग लगाने  के  लिए अधिकारियों को अवगत करा चुके है |  पर आज तक  अधिकारियो के कानों पर जूं तक नही रेंगी |   

Dakhal News

Dakhal News 28 September 2019


atm ले गए

  ATM ले जाने की घटना कैमरे में हुई कैद   सतना में बड़ी एक बड़ी घटना सामने आई | जब चोर एटीएम से पैसा नहीं निकाल सके तो एटीएम को कार से बांधा और घसीटते हुए ले गए | सीसीटीवी में चोर एटीएम को कार से बांधकर सड़क पर घसीटते हुए ले जाते दिख रहे हैं |    बीती रात सतना में एटीएम उखाड़कर ले जाने की एक बड़ी वारदात सामने आई है |  सीसीटीवी फुटेज में जो तस्वीरें सामने आई है वो चौकाने वाली हैं, जिसमें चोर एटीएम को कार से बांधकर सड़क पर घसीटते हुए ले जाते दिख रहे हैं |  जानकारी के मुताबिक देर रात करीब एक बजे अमरपाटन थाना इलाके में एसबीआई के एटीएम रूम में चोर घुस, उन्होंने पहले एटीएम से पैसा निकलने की कोशिश की जब वे इस में सफल नहीं हुए तो | एटीएम  मशीन को कार से बांधा और तेज रफ्तार में उसे उखाड़कर ले गए |  इस घटना ने पुलिस की रात की गश्त की पोल खोल दी है | पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है |         

Dakhal News

Dakhal News 27 September 2019


स्टॉप डेम

  बचाव दल और पुलिस तलाश में जुटी    दंतेवाड़ा में एक शिक्षक की नाले में डूबने की खबर  है  शिक्षक स्कूल से घर जा रहा था  तभी रास्ते मे पड़ने वाले मांडेर नाला में बने स्टॉप डेम को पार करते वक़्त  गिरने से वो लापता हो गया  पुलिस ने शिक्षक की तलाश शुरू कर दी है  लेकिन 48  घंटे बाद भी उनका पता नहीं चल सका है |     मुंडेर नाले में बहने वाले शिक्षक का  कोई सुराग नहीं मिल पाया | गोताखोर दिन भर नाले में करीब छह  किलोमीटर  तक तलाश की लेकिन सफलता नहीं मिली | मुचनार स्‍कूल से शाम को घर झारावाया पारा जाने के दौरान शिक्षक राजूराम कश्‍यप डेम से फिसलकर नाले में बह गया था  | जिसकी सूचना पर बारसूर पुलिस बुधवार को गोतोखोरों के साथ मिलकर दिन भर नाले में खोजती रही | लेकिन शाम तक शिक्षक और न ही उसका शव मिला नाले में करीब तीन मीटर पानी बह रहा है | इधर सुबह सूचना पर बारसूर थानेदार सावन कुमार सारथी गोताखोरों के साथ नाले में तलाशी शुरू की | लेकिन  कोई सफलता नहीं मिली | शिक्षक राजूराम कश्‍यप की तलाश में स्‍थानीय लोगों के साथ गोताखोरों ने मुंडेर डेम से लेकर इंद्रावती नदी के मुहाने तक करीब  छह   किमी की दूरी   खंगालने के बाद भी टीम और ग्रामीणों को निराशा हाथ लगी है | मुचनार प्राथमिक शाला के शिक्षक राजूराम कश्‍यप की चुनाव ड्यूटी कटेकल्‍याण ब्‍लाक में थी |  चुनाव संपन्‍न कराने के बाद वह मतदान सामग्री जमाकर मंगलवार की सुबह सीधे मुचनार स्‍कूल पहुंचा | स्‍कूल में ज्‍वाइनिंग और बच्‍चों को पढ़ाने के बाद शाम को झारावाया पारा स्थित घर लौट रहा था | तभी उनके साथ यह हादसा हो गया |    

Dakhal News

Dakhal News 26 September 2019


सामूहिक दुष्कर्म

छात्रा को होटल के कमरे में बुलाकर दुष्‍कर्म किया रतलाम में करीब साढ़े चौदह वर्षीय छात्रा को ब्लैकमेल कर उसके साथ दो नाबालिग छात्रों द्वारा गैंगरेप करने का मामला सामने आया है | एक आरोपी नाबालिग छात्र के साथ उसी की कक्षा में पढता है | जबकि दूसरा एक अन्य स्कूल में पढ़ता है |  दो नाबालिग छात्रों ने एक नाबालिग छात्र के साथ गैंग रेप किया  आरोपियों  की उम्र 14 से 15 वर्ष  है | पुलिस ने दोनों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज कर दोनों को पकड़  लिया है |  मामला प्रकाश में आने के बाद लोगों में आक्रोश है अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने गर्ल्स कॉलेज के सामने चक्काजाम व नारेबाजी कर प्रदर्शन किया और आरोपियों  के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की |  छात्रा ने रिपोर्ट की है कि वह उसकी कक्षा में पढ़ने वाले एक छात्र ने एक माह पहले उसे अपने मोबाइल फोन में छात्रा को उसका फोटो दिखाकर डराया था कि उसकी बात नहीं मानी तो वह उसका फोटो वायरल कर देगा | 9 सितंबर को जब छात्र के घर पर कोई नहीं था तब दोनों आरोपी छात्र के घर पहुंचे और उसके साथ गैंगरेप किया | छात्रा  ने चिल्लाने की कोशिश की तो एक ने हाथ से उसका मुंह दबा दिया इस दौरान इन लड़कों ने उसका वीडिओ बनाया और किसी को कुछ बताने पर उसे वायरल करने की धमकी दी | 19 सितंबर को  उसकी कक्षा में पढ़ने वाले छात्र ने फोन कर कहा कि शीघ्र आशीर्वाद होटल के रूम नम्बर 108 में आजा, नहीं तो तेरा वीडियो वायरल कर दूंगा | डर के कारण वह स्टेशन रोड स्थित उक्त होटल पहुंची  वहां फिर उसके साथ रेप किया गया  इस घटना के बाद पीड़ित लड़की ने अपने घर पर इस सब की जानकारी दी और मामला पुलिस तक पहुंचा |  पुलिस ने दोनों बलात्कारी छात्रों के खिलाफ  प्रकरण दर्ज कर उन्हें पकड़ लिया है | एसपी गौरव तिवारी ने  बताया कि गत दिवस नाबालिग लड़की ने शिकायत की थी, प्रकरण दर्ज कर दोनों नाबालिगों को पकड़ा  है  मामले की विवेचना की जा रही है | इसके पीछे अन्य लोग भी होंगे तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी  | उधर स्कूल की प्रिसिंपल ने  घटना की जानकारी मिलते ही आरोपी  छात्र को स्कूल से बाहर करने का फैसला किया है |  

Dakhal News

Dakhal News 26 September 2019


लड़की -टंकी

मोबाइल पर बात की और जमीन पर कूद गई शिवपुरी में पानी की टंकी से कूदकर एक लड़की ने खुदकशी कर ली  | नीचे खड़े लोगों ने लड़की को समझाने की काफी कोशिश की  | लेकिन उसने किसी की नहीं सुनी और नीचे कूद गई | पुलिस अब इस मामले की तफ्तीश कर रही है कि लड़की ने यह आत्मघाती कदम क्यों उठाया  |  शिवपुरी के फिजिकल थाना क्षेत्र के तहत आने वाली पानी की टंकी से सेंट बेनेडिक्ट स्कूल में पढ़ने वाली एक छात्रा ने छलांग लगा दी | मौके पर मौजूद पुलिस छात्रा को तुरंत अस्पताल लेकर पहुंची  | लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया पुलिस का कहना है कि, छात्रा मोबाइल फोन पर बात करते करते 150 फीट ऊंची पानी की टंकी से कूद गई  | जानकारी के मुताबिक छात्रा प्रियदर्शिनी नगर की रहने वाली है | थाना प्रभारी दीप्ति तोमर ने बताया कि जैसे ही घटना का पता चला पुलिस मौके पर पहुंच गई थी, उसे समझाने की भी कोशिश की | लेकिन इससे पहले पुलिस कुछ कर पाती, पानी की टंकी के ऊपर बैठी छात्रा ने छलांग लगा दी  | घटना के बाद से पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई है | पुलिस अब इस मामले की पड़ताल में जुटी है कि आखिर कूदने से पहले छात्रा अपने मोबाइल फोन से किससे बात कर रही थी  और उसने यह कदम क्यों उठाया  |   

Dakhal News

Dakhal News 24 September 2019


स्वस्थ शरीर के लिये संतुलित पोषण आहार जरूरी : स्वास्थ्य मंत्री  सिलावट

  इन्दौंर में 11वीं अपोलो इंटरनेशनल क्लीनिकल न्यूट्रीशन कांफ्रेंस संपन्न     अंतर्राष्ट्रीय क्लीनिकल न्यूट्रीशन सम्मेलन में विशेषज्ञों द्वारा बताये गये उपायों के व्यापक प्रचार-प्रसार की जरूरत है। सम्मेलन के निष्कर्षों को विभिन्न भाषाओं में व्यापक रूप से प्रचारित-प्रसारित करने की जरूरत है।  सिलावट आज इंदौर में 11वीं अपोलो इंटरनेशनल क्लीनिकल न्यूट्रीशन अपडेट कॉन्फ्रेंस को सम्बोधित कर रहे थे। कान्फ्रेन्स में दुबई, यूएसए, यूके, मलेशिया सहित 10 देशों और नई दिल्ली, बैंगलुरू, कोलकाता, मुंबई, चैन्नई के विशेषज्ञों ने लगभग 75 रिसर्च पेपर पढ़े।   मंत्री सिलावट ने कहा कि हम सभी को यह पता है कि स्वस्थ शरीर के लिये संतुलित पोषण आहार जरूरी है। फास्ट फूड की दुनिया में संतुलित आहार को लोग भूल गये हैं। इसके लिये लोगों में जागरूकता जरूरी है। आज जैविक खेती की महती आवश्यकता है। हमें आधुनिक कृषि और खाद प्रणाली को पोषण की दृष्टि से संवेदनशील और जनोपयोगी बनाना जरूरी है।   कान्फ्रेंस में स्वास्थ्य मंत्री ने मिलावट के खिलाफ मुहिम जारी रखने की अपील की। उन्होंने उपस्थित अतिथियों और श्रोताओं को शुद्ध आहार खाने, शुद्ध आहार खरीदने और शुद्ध आहार के लिये काम करने की शपथ दिलायी।  

Dakhal News

Dakhal News 23 September 2019


मंत्री  शर्मा ने सफाई दिवस पर लगाई झाड़ू

जनसम्पर्क मंत्री  पी.सी. शर्मा ने आज सुबह  5 नंबर मार्केट, शिवाजी नगर में विश्व सफाई दिवस पर स्थानीय जन-प्रतिनिधियों,  नागरिकों और नगर निगम के सफाई दल के साथ सफाई की l   शर्मा ने नागरिकों को सफाई और स्वच्छता की शपथ भी दिलाई l पार्षद श्री योगेन्द्र सिंह चौहान , एडीशनल कमिश्नर नगर निगम मयंक वर्मा और  बड़ी संख्या मेँ नागरिक मौज़ूद थेl   

Dakhal News

Dakhal News 22 September 2019


महिलाओं के अधिकारों को संरक्षित करने के लिए सरकार वचनबद्ध मुख्यमंत्री कमल नाथ द्वारा जबलपुर में पोषण

मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा है कि महिलाओं के अधिकारों को संरक्षित करने के लिए सरकार वचनबद्ध हैं। महिलाएँ, परिवार और समाज के निर्माण के साथ ही नियोजित विकास करने में भी सक्षम है। जरूरत है कि हम उन्हें अवसर उपलब्ध करवाये जिससे वे अपना कौशल दिखा सकें।  नाथ आज जबलपुर में महिला-बाल विकास विभाग द्वारा आयोजित पोषण आहार प्रदर्शनी का अवलोकन कर रहे थे। इसका आयोजन राष्ट्रीय पोषण माह के अवसर पर किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए सरकार निरंतर प्रयास कर रही है। हर क्षेत्र में उनके कौशल का उपयोग किया जाएगा, जिससे प्रदेश को उनकी क्षमता का लाभ मिल सकें। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर महिलाओं के अधिकारों को संरक्षित करने के संकल्प पत्र पर हस्ताक्षर किए। उन्होंने पोषण आहार से संबंधित गतिविधियों पर तैयार की गई सीडी का भी विमोचन किया। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर सारेगामा गायन प्रतियोगिता में पूरे देश में बालिकाओं में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली लाडो अभियान की ब्रांड एम्बेसडर कुमारी इशिता विश्वकर्मा को सम्मानित किया। एशियन गेम्स में तीरंदाजी में सिल्वर मेडल विजेता और पास्को की ब्रांड एम्बेस्डर मुस्कान किरार एवं राष्ट्रीय कबड्डी खिलाड़ी उन्नति तिवारी का भी सम्मान किया। मुख्यमंत्री ने लाड़ली लक्ष्मी योजना के प्रमाण-पत्र वितरित किए। उन्होंने आजीविका मिशन में महिलाओं के 150 स्व-सहायता समूह को 18 लाख 35 हजार रुपए की चक्रीय राशि, 48 समूह को 36 लाख रुपए की सामुदायिक निधि एवं 133 समूह को 1 करोड़ 36 लाख की साख सीमा राशि का वितरण किया। कार्यक्रम में ऊर्जा मंत्री  प्रियव्रत सिंह, वित्त मंत्री  तरुण भनोत, सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन मंत्री  लखन घनघोरिया, सांसद  विवेक तन्खा, विधायक तथा अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 22 September 2019


19वाँ इंडियन टेलीविजन एकेडमी

  19वाँ इंडियन टेलीविजन एकेडमी अवार्ड-2019 इंदौर में होगा आयोजित   देश का नामचीन इंडियन टेलीविजन एकेडमी अवार्ड का आयोजन मध्यप्रदेश में पहली बार होगा। यह समारोह 10 नवम्बर को इंदौर में आयोजित होगा। इसका मध्यप्रदेश में आयोजन गर्व का विषय है। मध्यप्रदेश सरकार आयोजन में भागीदार है और इसके लिये सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जायेगी। जनसम्पर्क मंत्री पी.सी. शर्मा ने आज इंदौर में यह बात कही। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री  कमलनाथ के विशेष प्रयासों से आयोजन की मेजबानी मध्यप्रदेश को मिली है। इससे मध्यप्रदेश में फिल्म निर्माण और टेलीविजन धारावाहिक की शूटिंग के लिये अनुकूल वातावरण निर्मित होगा। हमारे यहां महेश्वर, माण्डव, चन्देरी, जबलपुर, इन्दौर, होशंगाबाद और भोपाल में समय-समय पर फिल्में शूट की गई हैं। मध्यप्रदेश में इस क्षेत्र में अपार संभावनाएं मौजूद हैं। मध्यप्रदेश सरकार फिल्म और टेलीविजन इंडस्ट्री को मध्यप्रदेश में बढ़ावा देने सभी आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराने में हर संभव सहयोग प्रदान करेगी।    इस अवसर पर आयुक्त जनसम्पर्क पी.नरहरि, फिल्म एवं टी.वी.कलाकार विजय घाटगे, इंडियन टेलीविजन एकेडमी की अध्यक्ष अनु रंजन, संयोजक  शशि रंजन, टी.वी.सीरियल “भाभीजी घर पर हैं” की कलाकार शुभांगी अत्रे, रागिनी मक्कड़, सोनी टेलीविजन हेड प्रोग्रामिंग  आशीष गोलकर सहित अन्य कलाकार उपस्थित थे।    कार्यक्रम के आरंभ में इंडियन टेलीविजन एकेडमी की अध्यक्ष सुश्री अनु रंजन द्वारा जनसम्पर्क मंत्री  पी.सी.शर्मा तथा आयुक्त जनसम्पर्क  पी. नरहरि सहित उपस्थित अतिथियों का स्वागत किया गया। स्वागत के पश्चात इंडियन टेलीविजन एकेडमी के पूर्व इतिहास संबंधी संक्षिप्त फिल्म उपस्थित अधिकारियों व मीडिया को दिखायी गयी।   टेलीविजन एकेडमी अवार्ड-2019 के संबंध में आयुक्त जनसम्पर्क पी. नरहरि द्वारा विस्तृत रूप से जानकारी दी गयी। उन्होंने बताया कि 19वाँ इंडियन टेलीविजन एकेडमी अवार्ड देश का सबसे बड़ा और सबसे भरोसेमंद टीवी अवार्ड है। सोनी टीवी देश का प्रमुख चैनल है। यह अवार्ड 19 वर्षों से दिया जा रहा है। यह प्रथम अवसर है जब मध्यप्रदेश में यह समारोह आयोजित होने जा रहा है।    फिल्म कलाकार  विजेन्द्र घाटगे ने बताया कि 19वाँ इंडियन टेलीविजन एकेडमी अवार्ड पहली बार मिनी मुम्बई के रूप में पहचाने जाने वाले इंदौर के स्थानीय नेहरू स्टेडियम में आयोजित होने जा रहा है। यह अवार्ड मध्यप्रदेश की समृद्ध संस्कृति और विरासत को प्रदर्शित करने के लिये एक अनूठा मंच होगा।    इंडियन टेलीविजन एकेडमी की अध्यक्ष  अनु रंजन ने बताया कि इस कार्यक्रम में टेलीविजन जगत से जुडे करीब 300 कलाकार, निर्माता तथा तकनीशियन भाग लेंगे। इस पुरस्कार कार्यक्रम को सोनी एंटरटेनमेंट टीवी पर सीधे प्रसारित किया जायेगा। यह वेब पर टेलीकास्ट भी होगा।    

Dakhal News

Dakhal News 21 September 2019


इंडियन टेलीविजन एकेडमी अवार्ड-2019

  19वाँ इंडियन टेलीविजन एकेडमी अवार्ड-2019 इंदौर में होगा आयोजित   देश का नामचीन इंडियन टेलीविजन एकेडमी अवार्ड का आयोजन मध्यप्रदेश में पहली बार होगा। यह समारोह 10 नवम्बर को इंदौर में आयोजित होगा। इसका मध्यप्रदेश में आयोजन गर्व का विषय है। मध्यप्रदेश सरकार आयोजन में भागीदार है और इसके लिये सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जायेगी। जनसम्पर्क मंत्री  पी.सी. शर्मा ने आज इंदौर में यह बात कही। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री  कमलनाथ के विशेष प्रयासों से आयोजन की मेजबानी मध्यप्रदेश को मिली है। इससे मध्यप्रदेश में फिल्म निर्माण और टेलीविजन धारावाहिक की शूटिंग के लिये अनुकूल वातावरण निर्मित होगा। हमारे यहां महेश्वर, माण्डव, चन्देरी, जबलपुर, इन्दौर, होशंगाबाद और भोपाल में समय-समय पर फिल्में शूट की गई हैं। मध्यप्रदेश में इस क्षेत्र में अपार संभावनाएं मौजूद हैं। मध्यप्रदेश सरकार फिल्म और टेलीविजन इंडस्ट्री को मध्यप्रदेश में बढ़ावा देने सभी आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराने में हर संभव सहयोग प्रदान करेगी।    इस अवसर पर आयुक्त जनसम्पर्क  पी.नरहरि, फिल्म एवं टी.वी.कलाकार  विजय घाटगे, इंडियन टेलीविजन एकेडमी की अध्यक्ष अनु रंजन, संयोजक  शशि रंजन, टी.वी.सीरियल “भाभीजी घर पर हैं” की कलाकार शुभांगी अत्रे, रागिनी मक्कड़, सोनी टेलीविजन हेड प्रोग्रामिंग  आशीष गोलकर सहित अन्य कलाकार उपस्थित थे।    कार्यक्रम के आरंभ में इंडियन टेलीविजन एकेडमी की अध्यक्ष  अनु रंजन द्वारा जनसम्पर्क मंत्री  पी.सी.शर्मा तथा आयुक्त जनसम्पर्क  पी. नरहरि सहित उपस्थित अतिथियों का स्वागत किया गया। स्वागत के पश्चात इंडियन टेलीविजन एकेडमी के पूर्व इतिहास संबंधी संक्षिप्त फिल्म उपस्थित अधिकारियों व मीडिया को दिखायी गयी।   टेलीविजन एकेडमी अवार्ड-2019 के संबंध में आयुक्त जनसम्पर्क  पी. नरहरि द्वारा विस्तृत रूप से जानकारी दी गयी। उन्होंने बताया कि 19वाँ इंडियन टेलीविजन एकेडमी अवार्ड देश का सबसे बड़ा और सबसे भरोसेमंद टीवी अवार्ड है। सोनी टीवी देश का प्रमुख चैनल है। यह अवार्ड 19 वर्षों से दिया जा रहा है। यह प्रथम अवसर है जब मध्यप्रदेश में यह समारोह आयोजित होने जा रहा है।    फिल्म कलाकार  विजेन्द्र घाटगे ने बताया कि 19वाँ इंडियन टेलीविजन एकेडमी अवार्ड पहली बार मिनी मुम्बई के रूप में पहचाने जाने वाले इंदौर के स्थानीय नेहरू स्टेडियम में आयोजित होने जा रहा है। यह अवार्ड मध्यप्रदेश की समृद्ध संस्कृति और विरासत को प्रदर्शित करने के लिये एक अनूठा मंच होगा।    इंडियन टेलीविजन एकेडमी की अध्यक्ष  अनु रंजन ने बताया कि इस कार्यक्रम में टेलीविजन जगत से जुडे करीब 300 कलाकार, निर्माता तथा तकनीशियन भाग लेंगे। इस पुरस्कार कार्यक्रम को सोनी एंटरटेनमेंट टीवी पर सीधे प्रसारित किया जायेगा। यह वेब पर टेलीकास्ट भी होगा।      

Dakhal News

Dakhal News 21 September 2019


p.c sharma

    जनसम्पर्क मंत्री पी.सी. शर्मा ने अति-वृष्टि प्रभावित पंचशील नगर, राहुल नगर और अंबेडकर नगर जाकर जल-भराव की स्थिति और जल-निकासी व्यवस्था का निरीक्षण किया। स्थानीय रहवासियों की शिकायतों और समस्याओं को भी सुना तथा उनके निराकरण के निर्देश अधिकारियों को दिये।   मंत्रीशर्मा ने बस्तीवासियों को बताया कि अति-वृष्टि और बाढ़ प्रभावित लोगों को राहत देने के लिये राज्य सरकार लगातार काम कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रभावितों कों सभी सम्भव सहायता और राहत दी जा रही है। जनसम्पर्क मंत्री के साथ पार्षद  योगेन्द्र सिंह चौहान,  अमित शर्मा, प्रवीण सक्सेना और अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 21 September 2019


god liye janwar

  जानवरों के है अलग अलग रेट,जागरूकता है मुख्य उद्देश्य   मनुष्य को वन्य प्राणियो से जोड़ने के लिए रीवा  जू प्रशासन ने एक  पहल की है  | जिसमें  कोई भी व्यक्ति किसी भी वन्य प्राणी को गोद  ले सकेगा  ...   जानवरो के गोदनामे के वार्षिक, छमाही, तिमाही और मासिक रेट तय किये गए हैं |  सबसे ज्यादा रेट जंगल के राजा शेर का है  ... इसे चार  लाख 14 हजार रुपये देकर गोद लिया जा सकता है |    मार्तंड सिंह जूदेव टाइगर सफारी में  अब जानवरों  को गोद  लिया जा सकेगा | इसके लिए जू अथॉरटी ने मंजूरी दे दी है | इसमें प्रत्येक जानवरो के गोद लेने  के वार्षिक, छमाही, तिमाही और मासिक रेट तय गए है | जिसके आधार पर  आप किसी भी जानवर को गोद ले सकेंगे |  जंगल के राजा शेर  का रेट  4 लाख 14 हजार रूपए रखा गया है | वही तेंदुए का  वार्षिक रेट 1 लाख 65 हजार 6 सौ रूपए है | जबकि सबसे कम चिंकारा, हॉक डीयर का रेट रखा गया है |  डीएफओ ने बताया की इसका मुख्य उद्देश्य  लोगों में  वन्य प्राणियों के प्रति जागरूकता लाना है |   गौरतलब है की रीवा मुकुंदपुर स्थित व्हाइट टाइगर सफारी में करीब 640 हेक्टेयर में मांद रिजर्व बनाया गया है | इसमें से 75 हेक्टेयर में चिड़ियाघर और 25 हेक्टेयर में व्हाइट टाइगर सफारी है |  इसमें जू एंड रेस्क्यू सेंटर, ब्रीडिंग सेंटर भी बनाए गए हैं | जिले के मुकुंदपुर में दुनिया की पहली व्हाइट टाइगर सफारी का लोकार्पण तीन अप्रैल 2016 को किया गया था | इस सफारी में सफेद बाघों के साथ ही अन्य वन्य प्राणी भी देखने को मिलते हैं |  

Dakhal News

Dakhal News 20 September 2019


 किसान बीमा बैकं

  किसानों में सरकार की छवि ख़राब करते अधिकारी   अति बारिश और फसल की बर्बादी से इस समय मध्यप्रदेश का किसान परेशान हैं  |  ऐसे में भी किसानों को लेकर अधिकारियों का लापरवाह रवैया सामने आ रहा है  इन अधिकारियों को किसान की बात बकवास नजर आती है |   मध्यप्रदेश का किसान खून के आंसू रो रहा है  | मौसम की मार से किसान परेशान है तो अधिकारी अपनी ही मस्ती में है  | इन  अधिकारियों को किसानों  की परेशानी से कोई लेना देना नहीं है | ये नजारा है कुरवाई  के एस डी एम  के दरबार का  | जहाँ वह किसानों की बात को बकवास कह रहे हैं  |  यही वो अधिकारी हैं जिनके कारण कमलनाथ सरकार की छवि खराब हो रही है  | इस वीडिओ में एसडीएम किसान की बात को बकवास बता के उसे  बाहर जाने को कह रहे हैं  |  किसान का पैसा बीमा बैकं काटती तो किसानो के आवेदन भी बैकं में जमा होना चाहिए और रिसीव भी मिलनी चाहिए | पर यही बात एसडीएम साहब को समझ नहीं आयी और वे किसानों की बात को बकवास कहने लगे  |    

Dakhal News

Dakhal News 20 September 2019


honey trap

  पांच महिलाओं और एक पुरुष सहित कुल छ गिरफ्तार एक बड़े अधिकारी को कर रही थी ब्लैकमल वीडियो  वायरल करने की देती थीं धमकी   इंदौर पुलिस ने भोपाल पुलिस की मदद से हनीट्रैप गैंग का खुलासा किया है  |  इस में शामिल महिलाओं पर आरोप है कि ये  बड़े लोगों से दोस्ती कर उनके अंतरंग पलों को   कैमरे में कैद कर ब्लैकमेलिंग किया करते थीं  |  इनमे से कुछ महिलाओं के ताल्लुक बीजेपी और कांग्रेस के नेताओं से भी हैं  | इस मामले में अभी बहुत सी बातों का खुलासा होना बाकि है  |   इंदौर पुलिस की निशानदेही पर बीती रात कई जगह छापामार कार्यवाही कर भोपाल पुलिस ने हनीट्रैप में शामिल महिलाओं को पकड़ा |   इसके बाद हनीट्रैप गैंग का खुलासा हुआ  | इंदौर के पलासिया थाने में एक सरकारी अधिकारी ने शिकायत की कि कुछ लड़कियां उन्हें  हनीट्रैप में फंसकर बलैकमेल कर रही हैं  | इस मामले में सामने आने के बाद भोपाल से पकड़ी गई महिळाओं के पास कुछ ऐसे दस्तावेज और वीडिओ मिलने की बात कही जा रही है जो राजनैतिक और प्रशासनिक क्षेत्र में भूचाल ला सकता है  | सूत्र कहते हैं कि महिलाओं के ताल्लुक कांग्रेस -बीजेपी के नेताओं के आलावा अधिकारीयों और व्यापारियों से भी हैं  | सबके नाम पते और नंबर इनके पास मिले हैं  | वहीँ सरकार ने इस किस्से के खुलासे का स्वागत किया है और कहा है की इस मामले की पूरी जाँच कर सच सबके सामने लाया जाएगा   |   इस मामले में फरियादी ने पुलिस को बताया की आरती दयाल  उसके एवं उसके अन्य परिचितों के मोबाईल नंबर पर  वाट्सएप पर कॉल एवं मैसेज किये जा रहे हैं  ...आरती दयाल ने इस अधिकारी से कहा तुम्हारा  वीडियो क्लिप हैं  अगर चाहते हो कि यह वायरल न हो तो इसके लिए तीन करोड़ रुपये दो  |  पैसे ना देने की स्थिति में आरोपी विडियो क्लिप वायरल करने की धमकी देते हुये ब्लैकमेल कर रही थी  | इस शिकायत पर पुलिस टीम ने जाल बिछाया और   आरती दयाल को तीन करोड़ रूपये की पहली किस्त 50 लाख रूपये लेने के लिये  बुलाया  | आरती होंडा क्रेटा कार से इंदौर आई जहाँ पुलिस ने  आरती दयाल पति पंकज दयाल  निवासी सागर लेंडमार्क मिनाल रेसीडेन्सी भोपाल   |  उसकी सहयोगी  नरसिंहगढ़ की मोनिका यादव पर ओमप्रकाश कोरी  निवासी आदमपुर छावनी थाना बिलखिरिया भोपाल को पकडा  | पूछताछ में आरती दयाल ने कुछ बड़े खुलासे किये जिसके बाद भोपाल पुलिस एक्टिव हुईआरती ने बताया की उसकी साथी श्वेता जैन निवासी मिनाल रेसीडेन्सी ने उसे करीब 8 माह पहले नगर निगम इंदौर के अधिकारी से मिलवाया था  |  आरती दयाल ने इस अधिकारी से मुलाकातें की और  तब  उसकी साथी  मोनिका ने छुपके   वीडियो क्लिप बना ली  | और बलैकमेलिंग शुरू हो गई   आरोपी आरती दयाल के बताये अनुसार, उसकी महिला साथी  श्वेता जैन पति विजय जैन  निवासी जे 394 मिनाल रेसीडेंसी भोपाल की भी इसमें संलिपत्ता पाई गई | जिसके चलते महिला आरोपीया श्वेता जैन को भोपाल पुलिस ने पकड़ा  | आरेापिया महिला श्वेता जैन के कब्जे से  चौदह लाख  सत्तरह हजार रू रुपये नगद व मोबाईल फोन बरामद किये  |  इसी  काम मे लिप्त इनके  अन्य साथियों में  श्वेता जैन पति स्वपनिल जैन  निवासी रेवेरा टाउनि भोपाल एवं बरखा सोनी पति अमित सोनी  निवासी कोटरा सुल्तानाबाद को गिफ्तार किया गया है  | आरोपीगणों ने पूर्व में अन्य किन लोगाें के साथ इस प्रकार की वारदातें कर ब्लैकमेल  की  है इस संबंध में पुलिस रिमाण्ड  लेकर इनसे पूछताछ करेगी   |  

Dakhal News

Dakhal News 20 September 2019


मंदसौर जिले में स्वास्थ्य परीक्षण शिविरों में बाढ़ पीड़ितों का उपचार

मन्दसौर जिले में बाढ़ और अतिवृष्टि के बाद स्वास्थ्य परीक्षण शिविरों में बाढ़ पीड़ितों का परीक्षण किया जा रहा है। जगह-जगह माँ शिवना को शांत करने कलेक्टर ने की आराधना मंदसौर शहर में ऐसी मान्यता है कि अगर माँ शिवना अपना प्रचंड रूप दिखाती हैं, तो उन्हें शांत करने के लिए भगवान पशुपतिनाथ की आराधना कलेक्टर अर्थात जिले के राजा को करनी होती है। इसके लिए भगवान पशुपतिनाथ को पाँच नारियल पूरे विधि-विधान और मंत्र उच्चारण के साथ समर्पित किये जाते हैं।   कलेक्टर श्री मनोज पुष्प ने मान्यता को स्वीकारते हुए भारी बारिश में पशुपतिनाथ मंदिर पहुँचकर विधि-विधान से पूजा-अर्चना की। माँ शिप्रा से रौद्र रूप को शान्त करने का आव्हान किया गया। कलेक्टर शिवना नही के तट पर भी पहुँचे और पूजा-अर्चना की। स्वास्थ्य शिविर लगाकर लोगों को प्राथमिक उपचार के लिए आधारभूत दवाइयाँ उपलब्ध कराई जा रही हैं। लोगों का मेडिकल चेकअप किया जा रहा है। साथ ही, स्वाइन फ्लू, डेंगू, चिकनगुनिया आदि बीमारियों से बचाव के लिए सावधानियाँ भी बताई जा रही हैं। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में सभी प्रकार की दवाइयाँ उपलब्ध करवा दी गई हैं। पूरे जिले में सर्वे का कार्य भी युद्ध स्तर पर जारी है।    

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2019


भिण्ड जिले में रेस्क्यू ऑपेरशन से 1900 लोग सुरक्षित स्थानों पर पहुँचाए गए

  मन्दसौर में अत्यधिक बारिश होने तथा कोटा बैराज से पानी छोड़े जाने से भिण्ड जिले में चंबल नदी उफान पर है। इससे अटेर और भिण्ड क्षेत्र के  चंबल नदी के  किनारे बसे 44 गाँव प्रभावित हो रहे हैं। चम्बल नदी का जल-स्तर बढ़ने से सबसे ज्यादा  प्रभावित गाँव मुकुटपुरा, दिन्नपुरा नावली वृन्दावन, रमा कोट, खैराहट, नखनोली की मढ़ैयन, कोसण की मढ़ैयन, चीलोंगा, चौमहो, कछपुरा, तरशोखर हैं। इन गाँव में फँसे लोगों को प्रशासन द्वारा रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर  राहत शिविरों में पहुँचाया जा रहा है। बाढ़ग्रस्त गाँवों में प्रशासन द्वारा बार-बार समझाने पर भी कई लोग गाँव छोड़ कर जाने से इन्कार कर रहे हैं।   अभी तक गाँव नखनोली, रमाकोट, कोषण, नावली वृन्दावन, मुकुटपुरा चौमहो, कछपुरा, तरशोखर एवं दिन्नपुरा से लगभग 1900 से ज्यादा लोगों को  रेस्क्यू कर सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। रेस्क्यू किए गए 900 से ज्यादा लोगों को   जिला प्रशासन द्वारा बनाये गए राहत शिविरों में पहुँचा  दिया गया है। बाकी बचे लोग अपने रिश्तेदारों और मिलने वालों  के यहाँ सुरक्षित स्थानों पर चले गए हैं। जिला प्रशासन, होमगॉर्ड, सेना और एसडीआरएफ  द्वारा लगातार लोगों को रेस्क्यू कर सुरक्षित स्थानों पर पहुँचाया जा रहा है।   कलेक्टर भिण्ड श्री छोटे सिंह और पुलिस अधीक्षक श्री रुडोल्फ अल्वारेस बाढ़ की स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। ये अधिकारी बाढ़ प्रभावित स्थानों पर चलाए जा रहे रेस्क्यू आपरेशन में स्वयं मौजूद रह कर स्थिति पर पकड़ बनाये हुए हैं। साथ ही राहत शिविरों में सभी व्यवस्थाओं की निरंतर मॉनिटरिंग भी कर रहे हैं।    राहत शिविरों में किये गये सभी जरूरी इंतजाम   जिला प्रशासन द्वारा  रोशनलाल दैपुरिया महाविद्यालय सुरपुरा, हाईस्कूल विण्डवा , आईटीआई अटेर, मघेरा, हाई स्कूल रमाकोट में बनाये गये राहत शिविरों में लाये गए लोगों के लिये भोजन, पानी, सोने की व्यवस्था आदि आवश्यक इन्तजाम खाद्य विभाग द्वारा किए जा रहे हैं। सभी राहत शिविरों में मेडिकल टीमें पूरी तैयारी के साथ तैनात हैं। पशुओं के ईलाज के लिये पशु चिकित्सक तैनात किये गये हैं।   शासकीय अधिकारियों- कर्मचारियों की छुट्टियाँ निरस्त   कलेक्टर ने सभी शासकीय अधिकारियों-कर्मचारियों की छुट्टियाँ तत्काल प्रभाव से निरस्त  कर सभी को कार्य पर लौटने का आदेश जारी कर दिया है। आपदा प्रबंधन से जुड़े कर्मचारी, अधिकारी पूरी तरह से सहयोग कर रहे हैं। होमगार्ड्स को नाव, बोट सहित सभी सुरक्षा साधन उपलब्ध कराये गये हैं। जल संसाधन और सेतु विकास निगम के सुरक्षा अधिकारी और राजस्व का पूरा अमला इस मुहिम में लगा हुआ है और लगातार मोबाइल, दूरभाष सहित वायरलैस से आपस में सम्पर्क में बने हुए हैं। 

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2019


जीतू पटवारी

  उच्च शिक्षा मंत्री श्री जीतू पटवारी ने कहा है कि अब प्रदेश में 1500 स्मार्ट क्लासेस में आर्टिफिशियल इंटेलीजेन्स के माध्यम से शिक्षा दी जायेगी। श्री पटवारी ने आज लंदन में कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय की सीईओ सुश्री फ्रांसिसका वुडवर्ड से मुलाकात के दौरान यह बात कही। श्री पटवारी ने मध्यप्रदेश में उच्च शिक्षा में तकनीक का दोहन तथा कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय और प्रदेश के उच्च शिक्षा विभाग के समन्वित प्रयास से प्रौद्योगिकीय विकास तथा आर्टिफिशियल इंटेलीजेन्स के माध्यम से शिक्षण पद्धति को बेहतर बनाने पर चर्चा की।   श्री पटवारी ने कहा कि वर्तमान में हर क्षेत्र में आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल किया जा रहा है। हमें शिक्षकों को आधुनिक शिक्षण तकनीकों से लैस करना है। इसके लिये अब मध्यप्रदेश में आर्टिफिशियल इंटेलीजेन्स के माध्यम से शिक्षा देने का प्रयास किया जायेगा। उन्होंने गुणवत्तापूर्ण शिक्षा व्यवस्था पर जोर देते हुए कहा कि प्रदेश के युवाओं में कम्युनिकेशन स्किल विकसित करने में कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय मददगार साबित होगा। इसके लिये ऐसे पाठ्यक्रम बनाने की जरूरत है, जिससे साहित्यिक अंग्रेजी भाषा की जानकारी के अलावा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर विद्यार्थियों को एक्सपोजर भी मिले। उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश है कि पाठ्यक्रमों को यूरोपीय फ्रेमवर्क ऑफ रिफ्रेंस सीईएफआर के अनुरूप बनायें।   उच्च शिक्षा मंत्री श्री पटवारी ने कैम्ब्रिज एसेसमेंट इंग्लिश के सीईओ श्री साउल नासे तथा कैम्बिज विश्वविद्यालय प्रेस के सीईओ श्री पीटर फिलिप्स से भी मुलाकात की।   इस अवसर पर आयुक्त उच्च शिक्षा श्री राघवेन्द्र सिंह और मध्यप्रदेश निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग के अध्यक्ष श्री एम.एस. परिहार मौजूद थे।  

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2019


डॉ. प्रभुराम चौधरी

 मंत्री डॉ. चौधरी स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने आज अपने प्रभार के जिले दमोह में जिला मुख्यालय पर आयोजित दिव्यांग कल्याण शिविर में शामिल हुए। डॉ. चौधरी ने दिव्यांजनों को भरोसा दिलाया कि उन्हें विकास के समुचित अवसर उपलब्ध कराये जायेंगे। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने दिव्यांजन की पेंशन को दोगुना कर दिया है। साथ ही इन्हें आत्मनिर्भर बनाने के लिये विभिन्न उपकरण और अन्य सहायता भी वितरित की जा रही है।   मंत्री डॉ. चौधरी ने शिविर में दिव्यांग विद्यार्थियों को लेपटॉप, मुख्यमंत्री कल्याणी योजना और मुख्यमंत्री नि:शक्त विवाह योजना के हितग्राहियों को 2-2 लाख रूपये की सहायता राशि के स्वीकृति पत्र, ट्रायसाइकिल, व्हील चेयर और श्रवण यंत्र वितरित किये। मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के हितग्राहियों को डॉ. चौधरी ने ई-रिक्शा की चाबी सौंपी और ग्राम संग्रामपुर निवासी लक्ष्य विश्वकर्मा को उपचार के लिये साढ़े छह लाख की सहायता प्रदान की।

Dakhal News

Dakhal News 17 September 2019


raod hadsa

  बारिश में रोज हो रहे हैं सड़क हादसे   मध्यप्रदेश में इस समय सरकार की अनदेखी और बारिश ने सड़कों की हालात खराब कर दी है | सड़कें ऐसी हैं की इन पर चलना और गाडी चलाना कठिन हो गया है  पता नहीं कब हादसा हो जाए |   छतरपुर के सभी मुख्य मार्गों की हालत खस्ता है  | लोग अपनी दुकानों पर बैठ बैठे सड़क तरफ मोबाइल का कैमरा करते नहीं हैं कि एकाद हादसा  हो जाता है | सुनने में भले ही यह अजीब लगे लेकिन है शात  प्रतिशत  सत्य खराब रोड के कारण हादसा होना छतरपुर में अब आम बात है इस दृश्य को गौर से देखिये  कैसे बचते बचाते वाहन चल रहे हैं  | इस ऑटो चालक को भी लग रहा है की यह आसानी से इस सड़क को पार कर लेगा लेकिन यह क्या यह तो अटक गया  | अटका ही नहीं ये पलट गया  |  लोगों ने जाकर ऑटो में बैठे लोगों को बचाया  | ऐसा यहाँ अक्सर होता रहता है लेकिन जिनकी जिम्मेदारी सड़कों को ठीक करने की है  | वो सोये हुए हैं  जिसका खामियाजा आम लोगों को घायल होकर और हड्डियां तुड़वाकर उठाना पड़ रहा है |     

Dakhal News

Dakhal News 17 September 2019


भिंड बाढ़

  भारी बारिश से चंबल में बाढ़ का कहर   मध्य प्रदेश में भारी बारिश से हालात बेकाबू  हैं  |  राजस्थान सीमा से लगे जिलों में स्थिति कुछ ज्यादा खराब है  |  अतिवर्षा से गांधी सागर बांध के 19 गेट खोलने से चंबल नदी के हालात बिगड़ गए हैं  |  इसकी वजह से कोटा बैराज से 7 लाख क्यूसेक पानी चंबल नदी में छोड़ा जा रहा है  |  इसका सीधा असर श्योपुर, मुरैना और भिंड जिले के चंबल के किनारे पर बसे गांवों पर पड़ा है  |  जहाँ सेना को रेस्क्यू ऑपरेशन चलना पड़ा है  |    रविवार को भिंड ,मुरैना और श्योपुर  जिले के 100 से अधिक गांव पानी से घिर गए | श्योपुर और भिंड में बचाव कार्य के लिए सेना बुलानी पड़ी। ..  गांवों को खाली कराकर अब तक सैकड़ों लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है  |  आज सुबह भी सेना और एस डी आर एफ की टीमों ने भिंड के अटेर में ज्वाइंट रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया  |  अटेर के नावली वृंदावन गांव में चंबल नदी का पानी घुस गया है  |  ऐसे में लोगों को सुरक्षित स्थान तक पहुंचाने के लिए सेना ने मोर्चा संभाला हुआ है  |  सुबह से ही लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है  | चंबल नदी का जलस्तर खतरे के निशान 122 मीटर से 3 मीटर ऊपर यानी 125 तक पहुंच गया है | बाढ़ के खतरे को देखते हुए अटेर के 5 गांवों से करीब 400 लोगों को बाहर निकाला गया  |  श्योपुर की दो प्रमुख नदियां चंबल और पार्वती खतरे के निशान पर हैं  |   श्योपुर में तो हालात यहां तक बिगड़ गए कि पाली-श्योपुर हाइवे के करीब एक किमी हिस्से की निगरानी के लिए बोट चलानी पड़ी |  उधर, चंबल नदी में आए उफान से पाली हाइवे पर चिंधाड़ की पुलिया रविवार तड़के 4 बजे डूब गई और श्योपुर का राजस्थान से पूरी तरह संपर्क कट गया  यहां चंबल नदी का जलस्तर खतरे के निशान तक जा पहुंचा है  |  मुरैना में पुराने राजघाट पुल के ऊपर से चंबल बह रही है  |  इससे 13 साल पहले यानी 2006 में ऐसा हुआ था   | लगातार पानी बढ़ने से चंबल किनारे का गांव महूखेड़ा पानी में डूब गया हालांकि ग्रामीण पहले ही गांव से निकल आए थे  |  अभी  करीब दो दर्जन गांवों में पांच हजार से अधिक लोग गांवों में फंसे हुए हैं | चंबल में पानी बढ़ने से उसके किनारे के 89 गांवों में संकट खड़ा हो गया  है  | लेकिन यहाँ सेना लगातार लोगों को रेस्क्यू कर रही है  |    

Dakhal News

Dakhal News 16 September 2019


सज्जन सिंह वर्मा

  पर्यावरण मंत्री श्री वर्मा ने सिंगरौली में की समीक्षा   पर्यावरण मंत्री श्री सज्जन सिंह वर्मा ने आज सिंगरौली में औद्योगिक कम्पनियों के प्रतिनिधियों की बैठक में सी.एस.आर. फण्ड के उपयोग की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि कम्पनियाँ पर्यावरण प्रदूषण से उत्पन्न होने वाली बीमारियों की रोकथाम के प्रयास करें। हर महीने स्वास्थ्य शिविर लगाकर लोगों का मेडीकल चेकअप और दवाओं का वितरण करायें। श्री वर्मा ने कहा कि फण्ड का उपयोग मानवीय आधार पर किया जाये। कौशल विकास केन्द्रों की स्थापना कर बेरोजगारों को उनकी रूचि के अनुसार प्रशिक्षण दिया जाये और रोजगार भी मुहैय्या कराया जाये। पर्यावरण मंत्री ने निर्देश दिये कि सभी कम्पनियाँ आपदा प्रबंधन की व्यवस्थाओं को हमेशा चुस्त-दुरुस्त रखें, जिससे किसी भी आकस्मिक दुर्घटना को तुरंत रोका जा सके।   कम्पनियों में 70 प्रतिशत स्थानीय लोगों को मिले रोजगार- मंत्री श्री पटेल   पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल ने कहा कि क्षेत्र की कम्पनियाँ राज्य सरकार की नीति के अनुसार 70 प्रतिशत स्थानीय लोगों को रोजगार उपलब्ध करायें। विस्थापन नीति का शत-प्रतिशत पालन किया जाये। विस्थापितों एवं उनके बच्चों को समुचित प्रशिक्षण तथा रोजगार की निश्चित व्यवस्था की जाये।  

Dakhal News

Dakhal News 16 September 2019


लालजी टंडन

  नैक ग्रेडिंग की पहल नहीं करने पर कुलपति होंगे जिम्मेदार : राज्यपाल श्री टंडन   राज्यपाल श्री लालजी टंडन ने कहा है कि विकास का सिद्धांत समय अनुसार परिवर्तन ही है। जो समय के साथ नहीं चलेंगे, वे मुख्य-धारा से बाहर हो जायेंगे। उन्होंने कहा कि विश्व में बदलते शैक्षणिक मानकों पर खरे उतरने वाले शिक्षा संस्थान ही भविष्य में अस्तित्व में रह पाएंगे। राज्यपाल ने कहा कि समय की माँग है कि कुलपति शैक्षणिक गुणवत्ता के उच्च मापदण्ड निर्धारित करें। अनुशासन के वातावरण को मजबूत बनायें। स्वायत्तता का उपयोग शैक्षणिक नवाचारों, शोध और संसाधनों को जुटाने में करें। नई शिक्षा नीति के अनुसार नये पाठ्यक्रम शुरू करें। श्री टंडन आज राजभवन में उच्च शिक्षा उन्नयन प्रयासों की श्रंखला में "मध्यप्रदेश के उच्च शिक्षण संस्थानों की नैक ग्रेडिंग का सूत्रपात" कार्यशाला को संबोधित कर रहे थे।   राज्यपाल श्री टंडन ने कहा कि विश्वविद्यालयों की नैक ग्रेडिंग के लिए प्रयास करना कुलपतियों का उत्तरदायित्व है। कुलपतियों को शैक्षणिक गुणवत्ता को बेहतर बनाने, समय अनुसार नये प्रयोग और शोध करने, रिक्त पदों की पूर्ति, शैक्षणिक कैलेण्डर लागू करने, विद्यार्थियों को रोजगारपरक उच्चतम ज्ञान देने और बुनियादी सुविधाएँ जुटाने के लिए जवाबदारी के साथ कठोर और नवाचारी कार्य करने होंगे। राज्यपाल ने कहा कि कर्मठ कुलपतियों को भरपूर संरक्षण और सहयोग मिलेगा। स्व-प्रेरणा और परिणाम के अभाव में कुलपतियों की जिम्मेदारी भी निर्धारित की जाएगी।   श्री लालजी टंडन ने कहा कि जो बीत गया, उसे भूलकर नये जोश के साथ उज्जवल भविष्य के लिए प्रयास करें। उन्होंने कहा कि सरकार का बजट सीमित होता है। अनेक योजनाओं में अनुदान की राशि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के पास उपलब्ध है। आवश्यकता मानक प्रस्ताव तैयार कर आयोग के समक्ष प्रस्तुत करने की है। उन्होंने कहा कि शोध कार्य द्वारा भी संसाधन जुटा सकते हैं। श्री टंडन ने कहा कि सूचना क्रांति के इस युग में उच्च स्तरीय ज्ञान का प्रसार भी आय का माध्यम बन गया है। विद्वतापूर्ण व्याख्यान विचार और शोध को दुनिया में प्रसारित किया जा सकता है। कौशल उन्नयन, उद्यमिता आधारित पाठ्यक्रम का संचालन भी महत्वपूर्ण संसाधन है। प्रदेश के एक निजी विश्वविद्यालय ने अटल इन्क्यूबेशन सेंटर की स्थापना कर इस दिशा में प्रयास किया है। उनका सहयोगी निजी क्षेत्र का संस्थान 1000 करोड़ रूपए का वेंचर फण्ड भी उपलब्ध करा रहा है।   राज्यपाल श्री टंडन ने कहा कि भारत महाशक्ति बनने की ओर अग्रसर है। इसलिए युवा शक्ति को गुणवत्तापूर्ण मानव संसाधन उपलब्ध कराने का दायित्व विश्वविद्यालयों का है। उन्होंने कहा कि वैश्विक प्रतिस्पर्धा के साथ यह भी याद रखें कि हम अपनी जड़ों से दूर न हो जायें। शिक्षा के क्षेत्र में प्रगति के आधार पर ही प्राचीन भारत को जगतगुरू कहा जाता था। करीब आधी दुनिया हजारों वर्षों से शिक्षा के क्षेत्र में भारत के योगदान को स्वीकारती है। ऐसे भारतीय वैज्ञानिकों के बारे में युवा पीढ़ी को अवगत कराने का प्रयास करें। इससे राष्ट्रीय स्वाभिमान जागृत होगा और देश के अनुरूप शिक्षण पद्धति विकसित होगी। राज्यपाल ने कहा कि प्रदेश में नैक उदारता,सुधारता और पात्रता के फार्मूले का पालन कर विश्वविद्यालयों को नैक ग्रेडिंग के लिए मार्गदर्शन देगी। उन्होंने कुलपतियों से कहा कि नैक की ग्रेडिंग प्राप्त करने के लिए शैक्षणिक वातावरण और व्यापक चिंतन जरूरी है।   नैक के चेयरमैन श्री बी.एस. चौहान ने कहा कि शैक्षणिक गुणवत्ता के लिए समय चक्र तय कर कार्य-योजना बनाई जाये। उच्च शिक्षा में रातों-रात परिवर्तन नहीं हो सकता। शिक्षा की चुनौतियों को ध्यान में रखकर उनके समाधान के प्रयास जरूरी हैं। उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति का प्रभावी क्रियान्वयन किया गया, तो कुछ ही वर्षों में उच्च शिक्षा व्यवस्था का स्वरूप बदल जाएगा। संसाधनों की उपलब्धता बढ़ जाएगी। कुलपतियों की संख्या दोगुनी हो जायेगी। आवश्यकता प्रयासों के प्रति निष्ठावान और संकल्पित होने की है।   प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा श्री हरिरंजन राव ने कहा कि प्रदेश में उच्च शिक्षा पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। शिक्षा के क्षेत्र में स्वायत्तता बढ़ रही है। शिक्षण संस्थाओं की जवाबदारी भी बढ़ेगी। शिक्षण व्यवस्था और शैक्षणिक वातावरण के प्रति समाज में घटते विश्वास की चुनौती का समाधान वर्तमान समय की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि कुलपति यदि चुनौतियों का सामना सूचना प्रौद्योगिकी और नवाचारों के साथ करेंगें, तो निश्चय ही विश्वविद्यालय का भविष्य उज्जवल होगा। उन्होंने कहा कि सीमित संसाधनों में बेहतर परिणाम देना ही सच्ची राष्ट्र सेवा है।   कार्यशाला में प्रथम तकनीकी सत्र को नैक के चेयरमेन प्रो. वी.एस. चौहान और डॉ. हरिसिंह गौर विश्वविद्यालय सागर के कुलपति प्रो. आर.पी. तिवारी ने संबोधित किया। दूसरे सत्र में कुलपतियों के सात समूहों का गठन किया गया। सात विषयों पर समूहों द्वारा विचार-विमर्श कर राज्यपाल को कार्यशाला का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया।          

Dakhal News

Dakhal News 16 September 2019


nagin dance maut

  नागिन डांस के करते निकला दम    गणेश विसर्जन के दौरान नागिन डांस करते वक्त जमीन पर गिरकर एक  युवक की  मौत हो गई   हैरानी की बात यह थी की  लोग काफी देर तक तो कुछ समझ ही नहीं पाए  |  गाने की धुन पर लोग डांस करते रहे  | जब बहुत देर तक वो नहीं उठा और लोगो ने पास जाकर देखा तब तक उसकी जान जा चुकी थी |  युवक की मौत की खबर फैलते ही गणेश उत्सव का पर्व मातम में बदल गया  |     एक सख्श जो बेहद खुश हैं जो पूरी मशरूफियत से नागिन डांस कर रहा हैं  | डांस करते - करते कई तरह के स्टंट कर रहा हैं  | वो नहीं जनता अगले ही पल उसके साथ क्या होगा  | वो नागिन की तरह लहरा कर जमीन पर कूदता हैं और फिर उठ ही नहीं पाता  एक स्टंट उस पर भारी पड़ जाता हैं  | पल भर में उसका दम निकल जाता हैं  | और डांस करते करते उसकी जिंदगी ख़त्म हो जाती हैं  | घटना  सिवनी जिले के कान्हीवाड़ा थाना अंतर्गत ग्राम कटिया की हैं  | गांव में सार्वजनिक रूप से गणेश प्रतिमा बैठाई गई थी  |  जहां  विगत  रात्रि प्रतिमा विसर्जन कार्यक्रम के दौरान  नागिन डांस करते समय सिर के बल गिर जाने से गुरूप्रसाद ठाकुर की मौके पर ही मौत हो गई  |  आपको बता दें युवक गुरूप्रसाद ठाकुर को पूर्व में दुर्घटना में सिर पर चोट लगी थी  | उपचार के बाद वह ठीक हो गया था  | लेकिन नागिन डांस करते समय सिर के बल गिर जाने से उसका दम निकल गया |       

Dakhal News

Dakhal News 14 September 2019


ganpati visarjan

  धूम - धाम से निकले चल समारोह        दस दिवसीय गणेशोत्सव का समापन गुरुवार को अनंत चतुर्दशी चल समारोह और प्रतिमाओं के विसर्जन के साथ हुआ | गणपति बप्पा मोरिया अगले बरस तू जल्दी आ और गणपति के जयकारों के साथ | हजारों की तादात में झाकिया निकाली  गई जहाँ एक तरफ घरों में लोगो ने गार्डन और बाल्टियों में छोटी मूर्तियों का विसर्जन किया |  वही नगर निगम ने भी जगह - जगह पानी से भरे बड़े पात्र सड़क किनारे रखे थे |  जिससे लोग अपनी सुबिधा अनुसार विसर्जन कर सके  | झाकियों में बैठे गणेश जी का विसर्जन शाहपुरा , प्रेमपुरा और बैरागढ़ के घाटों पर किया गया  |    प्रतिमाएं भदभदा स्थित प्रेमपुरा, खटलापुरा, बैरागढ़ आदि घाटों पर भी विसर्जित की गई  | नगर निगम द्वारा शहर के सभी वार्डों के प्रमुख चौराहों व बड़े झांकी पंडालों समेत करीब 200 स्थानों पर प्रतिमाओं के विसर्जन के लिए विसर्जन पात्र रखे  गए  | विभिन्न समाज व संस्थाएं ने भी विसर्जन पात्र रखें   रात से ही पंडालों में हवन पूजन शुरू हो गया था और सुबह से ही सड़कों पर गणपति बाप्पा के जयकारों के साथ लोग विघ्नहर्ता के विसर्जन के लिए निकल पड़े थे |   

Dakhal News

Dakhal News 13 September 2019


बस दुर्घटनाग्रस्त

  पेट्रोल टैंकर से टकराई बस ,8 लोग घायल   टैंकर ड्राइवर के अचानक ब्रेक लगा देने के कारण एक बस उससे टकरा गई | जिसमे आठ लोग घायल हो गए | ये सेंधवा से इंदौर जा रही थी |   सेंधवा से इंदौर जा रही ठाकुर ट्रेवल्स की बस ठिकरी के पास पेट्रोल टैंकर से टकरा गई | जिसमें 8 लोग घायल हो गए | घायलों को ठिकरी स्थित अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद बड़वानी रेफर किया गया है |  जानकारी के मुताबिक चौधरी ढाबे के पास आगे चल रहे कंटेनर चालक ने अचानक ब्रेक  लगा  दिए जिससे यात्री बस उससे टकरा गई | घटना में बस का अगल हिस्सा बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया और आगे बैठे यात्री घायल हो गए | घटना के बाद सभी यात्री घबरा गए थे |  रास्ते से निकल रहे अन्य लोगों ने  घायलों को बस से  बाहर निकाला | लोगों ने घटना की सूचना पुलिस और एंबुलेंस को दी |  इसके बाद घायलों को इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया गया | 

Dakhal News

Dakhal News 13 September 2019


barish totke

  पहले अच्छे मानसून के लिए करवाई थी शादी   भारी बारिश के चलते लोग परेशान हैं और उनका जीना दूभर हो गया है  | ऐसे में लोगों ने बारिश को रोकने के लिए एक टोटके का इस्तेमाल किया और मेंढक -मेंढकी का तलाक करवाया  | इससे पहले अच्छे मानसून की कामना को लेकर इन्हीं लोगों ने मेढक मेंढकी का विवाह करवाया था  |    हमारे समाज में हर काम के लिए कोई न कोई टोटका मौजूद हैं  | भारी बारिश से परेशान लोगों ने सारे जतन कर लिए लेकिन बारिश से निजात नहीं मिल रही  बारिश अब लोगों के लिए मुसीबत का सबब बन गई है  |  ऐसे में लोगों ने बारिश रोकने के लिए मेंढक मेंढकी के तलाक की रस्म को पूरा किया  | मान्यता है कि मेंढक मेंढकी के विवाह से इंद्र देवता प्रसन्न होकर बारिश करवाते हैं  और मेंढक मेंढकी का विवाह विच्छेद किया जाए तो इंद्र देवता उस इलाके से नजरें मोड़ लेते हैं और बारिश रुक जाती है | यह पहला मौका है जब भरपूर बारिश के बाद लोगों ने विधि विधान से मेंढक -मेंढकी का तलाक करवाया  |   इस साल भी जब मानसून की अच्छी शुरुवात नहीं हुई थी तो जुलाई में इन्हीं लोगों ने मेंढक मेंढकी का विवाह करवाया था  |  जिसके बाद बारिश का जो सिलसिला चला तो वह रुकने का नाम ही नहीं ले रहा है | अब मानसून से परेशान होकर लोगों ने मेंढक मेंढकी को विधि विधान से अलग करवाया  इसके लिए भोपाल के इंद्रपुरी में ख़ास आयोजन किया गया  |  

Dakhal News

Dakhal News 12 September 2019


kamalnath

  प्रदेश के सभी शहरों में बनेंगे 5 लाख आवास   राजेश पाण्डेय मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ बुधवार को झाबुआ से प्रदेश के शहरी आवासहीनों को आवास उपलब्ध कराने की अति-महत्वाकांक्षी योजना मुख्यमंत्री आवास मिशन (शहरी) का शुभारंभ करेंगे। अब मलिन बस्तियों में रहने वाले आवासहीन भी मकान मालिक बनेंगे। मिशन में 5 लाख आवास बनाये जायेंगे। कार्यक्रम में नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह भी शामिल होंगे। मिशन का उद्देश्य मध्यप्रदेश के सभी शहरों में गरीबों को आवासीय भूमि का पट्टा एवं पक्का आवास उपलब्ध कराना है। मिशन में आवास स्वामित्व के लिए किराया आधारित आवास निर्माण और जन-निजी भागीदारी (पीपीपी) से निर्माण कार्य होगा। योजना लगातार संचालित होगी। पट्टा वितरण मिशन में 15 सितम्बर से प्रारंभिक सूची का प्रकाशन, परीक्षण एवं दावे-आपत्तियों का निराकरण कर 30 अक्टूबर तक अंतिम सूची का प्रकाशन किया जायेगा। आगामी 5 नवम्बर से 20 दिसम्बर तक पट्टों का वितरण किया जायेगा। मिशन का ध्येय वाक्य "सबको मिले मकान है यह लक्ष्य महान" मिशन में शहरी गरीबों को आवासीय भूमि का स्वामित्व दिया जायेगा। कच्चे अथवा आधे पक्के मकानों को पूरी तरह से पक्का बनाने के लिए वित्त पोषण और मलिन बस्तियों का एकीकृत विकास किया जायेगा। वित्तीय स्वरूप मिशन में प्रति आवास एक से डेढ़ लाख रूपये लागत तक की भूमि का नि:शुल्क स्वामित्व और आवास निर्माण के लिए अन्य योजनाओं में कन्वर्जेंस से प्रति आवास 2 लाख 50 हजार रूपये अनुदान दिया जायेगा। मलिन बस्तियों के हितग्राहियों को 3 लाख रूपये प्रति आवास और अन्य हितग्राहियों को डेढ़ लाख रूपये अनुदान दिया जायेगा। भूमि एवं अधोसंरचना विकास कार्यों के लिए प्रति आवास एक लाख 75 हजार से 2 लाख 25 हजार रूपये तक दिये जायेंगे।  

Dakhal News

Dakhal News 11 September 2019


मकान गिरा

पलक झपकते ही गिर गया दो मंजिला मकान जर्जर मकान के मलबे में दबे कई वाहन   भोपाल में  पिछले दो दिनों से जारी बारिश की वजह से एक जर्जर मकान पालक झपकते ही जमींदोज हो गया  जर्जर मकान के गिरने से कोई जनहानि नहीं हुई है | लेकिन इसके मलबे में कई वहान  दब गए हैं  |    भोपाल में भारी बारिश हो रही है  | कई इलाकों में पानी भर गया है  |  वहीं आज दोपहर तापड़िया कॉम्प्लेक्स के पास खजांची गली में दो मंजिला बिल्डिंग भरभराकर गिर गई इसके चलते कई गाड़ियां मलबे में दब गईं  | हादसे की जानकारी मिलते ही निगम अमला मौके पर पहुंचा और रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया | इस बिल्डिंग में किराना दुकान का गोदाम था और ये इमारत जर्जर थी  |   लेकिन नगर निगम ने इसे अब तक नहीं गिराया था आमतौर पर इमारत के आस-पास काफी भीड़ रहती है  | लेकिन आज बारिश के चलते गोदाम नहीं खुला था  | वरना बड़ी जनहानि भी हो सकती थी | बिल्डिंग गिरने का एक वीडियो भी सामने आया है   | जिसमें अचानक कुछ सैकेंड में इमारत गिरती नजर आ रही  है और आस-पास धूल का गुबार उठता दिख रहा है   ... जैसे ही धूल का गुबार छंटता है तो मलबे में दबी गाड़ियों की तस्वीर नजर आ जाती है  ...   

Dakhal News

Dakhal News 10 September 2019


Bus Fire

  ड्राइवर की गलती से हो जाता बड़ा हादसा   सिवनी से मंडला जा रही बस ने एक बाइक को टक्कर मार दी  | जिसके बाद बस में आग लग गई  | आनन-फानन में मुसाफिर बस से नीचे उतर गए वर्ना ड्राइवर की गलती से  बड़ी जनहानि हो सकती थी  |    सिवनी से मंडला जा रही यात्री बस में बरेलीपार गांव के पास एक हादसे के बाद आग लग गई  | आग लगते ही बस धू-धूकर जलने लगी  | गनीमत रही कि हादसे के बाद सभी मुसाफिर वक्त रहते नीचे उतर गए  |  वरना बड़ी जनहानि भी हो सकती थी  | बस सिवनी से मंडला जा रही थी तभी बरेलीपार गांव के पास एक बाइक सवार को बस ने टक्कर मार दी  |  इसके बाद ड्राइवर बस को लेकर भागने लगा  | इसी दौरान बाइक बस के नीचे फंस गई और ड्राइवर 8 किलोमीटर तक ऐसे ही बस को  दौड़ाता रहा  | इसी दौरान बाइक से चिंगारी निकलने लगी  और  देखते ही देखते ही आग भड़क गई और बस के अगले हिस्से को अपनी चपेट में ले लिया  कुछ देर के भीतर ही बस पूरी तरह जलकर खाक हो गई  |  इस हादसे में बाइक सवार की मौके पर ही मौत हो गई   हादसे की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंचीं और हालात को काबू किया | 

Dakhal News

Dakhal News 10 September 2019


current maut

  तार चोर गिरोह के हो सकते हैं मरने वाले   बिजली के तार से  करंट  लगने से चार लोगों की मौत हो गई  | माना जा रहा है की ये लोग चोरी करने के उद्देश्य से बिजली का तार काट रहे थे  | अचानक तार में करंट आने से चरों की घटना स्थल पर ही मौत हो गई  |   टीकमगढ़ में  जतारा क्षेत्र के  ग्राम कंचनपुरा में  बिजली तार से लिपटी हुई चार लाशें मिलने से क्षेत्र में  सनसनी फैली गई  | टीकमगढ़ के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुन्ना लाल चौरसिया ने बताया कि चार मृतकों में से एक मृतक की पहचान हो चुकी है  | जिसका नाम गोकुल कुशवाहा है | जो उसी गांव का रहने वाला है | घटनास्थल पर मिले साक्ष्यों के आधार पर चारों बिजली तारों की चोरी करने के उद्देश्य से तार काट रहे थे | तभी उसमें करंट प्रवाह हो गया  |  और चारों की घटनास्थल पर मौत हो गई | पुलिस ने पंचनामा तैयार कर लाशों के पीएम के लिए भेज दिया  | जानकारी के अनुसार ये लोग लंबे समय से बिजली विभाग की तार चोरी करके बेचते देखें जा चुके हैं |

Dakhal News

Dakhal News 9 September 2019


nashili syrup

  युवक-युवती कफ सिरप के साथ गिरफ्तार   पुलिस ने दो अलग अलग मामलों में नशीली कफ सिरप बेच रहे एक युवती और युवक को गिरफ्तार किया है | जब्त की गई कोरेक्स सिरप की कीमत हजारों में बताई  जा रही है |  ये दोनों ही मामले रीवा के हैं ...रीवा में लोग कफ सिरप से नशा कर रहे हैं  |   रीवा में एक युवती और एक युवक को कोरेक्स कफ सिरप बेचते पकड़ा गया  | पुलिस अधीक्षक आबिद खान के निर्देशन में की गई कार्यवाई को सिटी कोतवाली थाना प्रभारी थाना प्रभारी ओंकार तिवारी ने अंजाम दिया  | पकड़ी गई युवती का नाम आशा विश्वकर्मा बताया जा रहा है |  जिसके पास से  316   बोतल नशीला  सिरप बरामद  किया गया  | नशीले  सीरप की कीमत तीस हजार रुपये बताई जा रही है  |      दूसरी और  अतरैला पुलिस ने  एक युवक को नशीले  कफ सिरप के साथ पकड़ा  थाना प्रभारी आर एस सिंह ने बताया कि ग्राम पटेहरा से   फरार आरोपी विधी चन्द्र गुप्ता को  दबिश देकर पकड़ा गया | जो अपने पास एक झोले में 70 शीशी  कोरेक्स लिए घूम रहा था  |  सिरप को जप्त कर आरोपी को गिरप्तार कर लिया गया है  | बताया  जा रहा है की  आरोपी लंबे समय से कोरेस्क का अवैध कारोबार कर रहा था  |  इसके विरुद्ध पूर्व में भी  कई मामले कायम है   | आरोपी अपराधिक  प्रवृति का व्यक्ति है | आरोपी पर  ड्रक्स कंट्रोल एक्ट और औषधी  नियंत्रण अधिनियम के तहत कार्यवाही की गई  |    

Dakhal News

Dakhal News 9 September 2019


maut

  परिजनों ने की मौत की जाँच की मांग   ग्वालियर के  ठाठीपुर इलाके में साइकिल से गिरने पर संदिग्ध परिस्थितियों में एक 13 वर्षीय किशोर की मौत हो गई   |  इस घटना बाद किशोर के परिजन इस मामले की जांच की मांग कर रहे हैं |  पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर मामले की जाँच शुरू कर दी है  |   थाटीपुर बजरिया में संतोषी माता मां के मंदिर के पास रहने वाले 13 वर्षीय जगदीश उचारिया अपने साथी शुभम के साथ घर से घूमने जाने के लिए साइकिल पर सवार होकर निकला था | लाइन नंबर सात  के करीब साइकिल से गिरने के कारण जगदीश बेहोश हो गया   शिवम ने जगदीश की तबियत खराब होने की सूचना उसके परिजनों को दी  |  परिजन बेहोश की अवस्था में जगदीश को अस्पताल लेकर पहुचे  | जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया  जगदीश के परिजनों ने इस मामले को संदिग्ध मानते हुए इसकी जाँच की मांग की  |   जगदीश के पिता का पूर्व में निधन हो चुका है और जगदीश का बड़ा भाई सुनील सूरत में  काम करता है  | जगदीश के चचेरे भाई संदीप ने जगदीश की मौत को संदिग्ध माना है और मामले की जांच किये जाने की मांग की है | वहीं पुलिस ने पोस्टमार्टम कराकर जगदीश का शव उसके परिजनों को सौंप दिया है |  पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का इन्तजार कर रही है उसी  के बाद साफ हो सकेगा कि जगदीश की मौत हादसा है या कुछ और  |  

Dakhal News

Dakhal News 7 September 2019


lata world record

  लगातार कुकिंग कर लता ने दर्ज कराया गिनीज बुक में नाम      गिनीज बुक ऑफ वर्ड रिकार्ड में अपना नाम दर्ज कराने का जुनून कुछ इस तरह छाया की लगातार 81 घंटो तक लता टण्डन के हाथ नहीं थामे  |   लगातार कुकिंग करती रही और एक नया कीर्तिमान स्थापित किया  | लता ने अमेरिका की रिकी लुम्पकिन को पछाड़ दिया हैं  | अभी तक यह रिकॉर्ड 68 घंटे की कुकिंग का था   |  जिसको लता ने 81 घंटे की लगातार कुकिंग के बाद तोड़ दिया हैं |     रीवा  की रहने वाली लता टण्डन ने लगातार 81 घंटो तक कडी मेहनत के बाद एक ऐसा कीर्तिमान स्थापित किया जिससे उन्हे गिनीज बुक ऑफ वर्ड रिकार्ड मे सम्मान मिला  | इससे पहले ये रिकार्ड अमेरिका की रिकी लुम्पकिन का था  | जिन्होने 68 घंटे 30 मिनट 01 सेकेंड तक लगातार कुकिंग किया था लता टण्डन ने कुकिंग मैराथन का अपना टारगेट  72 घण्टे का रखा था  |  जिसे पूरा करने के बाद भी वो नहीं रुकी  कुकिंग  मैराथन जारी रखा और लगातार 81 घंटे का नया कीर्तिमान स्थापित किया |  

Dakhal News

Dakhal News 7 September 2019


बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ

   रीवा जिले को ''बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ'' योजना में जन्म के समय बाल लिंगानुपात में लगातार बेहतर प्रदर्शन के लिए राष्ट्रीय स्तर पर पुरस्कृत किया गया है। केन्द्रीय महिला-बाल विकास मंत्री श्रीमती स्मृति जुबीन ईरानी ने आज नई दिल्ली में जिला कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती प्रतिभा पाण्डे को यह पुरस्कार प्रदान किया।रीवा जिले को देश के 10 चुने हुए ‍जिलों में शामिल किया गया है। पहले प्रदेश को ''बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ'' योजना के बेहतर क्रियान्वयन के लिए राष्ट्रीय स्तर पर तत्कालीन केन्द्रीय महिला-बाल विकास मंत्री श्रीमती मेनका गाँधी ने विगत जनवरी माह में नई दिल्ली में पुरस्कृत किया था।   योजना में रीवा जिले में विभिन्न जागरूकता कार्यक्रम किये गये। जिले में कम लिंगानुपात वाले गाँवों को चुन कर वहाँ पर हर घर दस्तक, शक्ति चौपाल, नुक्कड़ नाटक, कठपुतली शो आदि किये गये। साथ ही ऐसे परिवारों को भी सम्मानित किया गया, जिनमें कक्षा में सर्वोच्च स्थान प्राप्त केवल बेटियाँ हैं। कन्या भ्रूण हत्या रोकने के लिए कार्यशाला, जागरूकता रैली, मानव श्रृंखला, रंगोली प्रतियोगिता की गई। आँगनवाड़ी केन्द्रों में जन्मोत्सव एवं बिटियाँ उत्सव मनाने गये। महिला-बाल विकास विभाग द्वारा जिला और परियोजना स्तर पर विद्यालयों और महाविद्यालयों में कार्यशाला की गई। अस्पतालों में नवजात बालिकाओं और उनके परिजनों का स्वागत किया गया।   योजना में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए राष्ट्रीय स्तर पर चुने गये जिलों में प्रदेश के 6 जिले रीवा, भिण्ड, मुरैना, ग्वालियर, दतिया और टीकमगढ़ शामिल है। वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार रीवा जिले में जन्म के समय बाल लिंगानुपात 885 था। जिले को अप्रैल 2016 में जब योजना में शामिल किया गया था तब बाल लिंगानुपात 919 था। वर्ष 2018-19 में यह बढ़कर 934 हो गया है।  

Dakhal News

Dakhal News 6 September 2019


barish

  दहशत में गुजररहा है बारिश का दौर   बस्तर इलाके में पिछले चार दिनों से हो रही बारिश ने लोगों को परेशान कर दिया है  |  कई इलाकों में हुई भारी बारिश से घरों में पानी भर गया   और सड़कें तालाब जैसी नजर आने लगीं  |    जगदलपुर और पूरे बस्तर में लगातार चार दिनों से जमकर बारिश हो रही है बारिश रुकने का नाम ही नहीं ले रही जिसके कारण जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है | बीती रत  बारिश ने अपना कहर बरपाया लोगों ने अपने जीवन में ऐसी बारिश नहीं देखी थी  | बारिश इतनी तेज थी कि लोगों के घर नदी नाले में तब्दील हो गए  | लोगों ने पूरी रात दहशत में गुजारी  | घरों के सामने खड़ी गाड़ियां जलमग्न हो गई लोगों के घर में रखे बर्तन   पानी में डूबते नजर आए  | लोग अपने घरों में ही कैद होने को मजबूर हो गए  | जगदलपुर में फिर बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं  | नदी नाले खतरे के निशान से ऊपर चल रहे हैं  | मौसम विभाग की मानें तो अगले 24  घंटे और बस्तर में जमकर बारिश हो सकती है  |  निचली बस्तियों में रहने वालों को सुरक्षित ठिकानों पर पहुंचाने का काम शुरू कर दिया गया  |       

Dakhal News

Dakhal News 6 September 2019


raktdan

  बढ़चढ़ के किया युवाओं ने रक्तदान     अखिल भारतीय वीर गुर्जर महासभा ने अंतरराष्ट्रीय गुर्जर दिवस  और  गुर्जर सम्राट मिहिर भोज महान की जयन्ती बड़े  धूमधाम से मनाई |  इस मौके पर  रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया | जिसमे समाज के  सैकड़ो युवाओं ने रक्तदान किया |    हरदा में अखिल भारतीय वीर गुर्जर महासभा द्वारा  10 वा  अंतरराष्ट्रीय गुर्जर दिवस  व गुर्जर सम्राट मिहिर भोज महान की जयन्ती  धूमधाम से मनाई गई  सम्राट मिहिर भोज की जयंती पर   रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया | मुख्य अतिथियो ने  भगवान देवनारायण की पूजा अर्चना कर  कार्यक्रम का शुभारम्भ किया | इस मौके गुर्जर सम्राट मिहिर भोज के जीवन पर प्रकाश डालते हुए उनको याद किया गया |     इस दौरान लगभग सैकड़ों युवाओं ने रक्तदान किया  | इस अवसर पर अखिल भारतीय वीर गुर्जर महासभा के राष्ट्रिय महामंत्री  गुर्जर मनोज बागरे, प्रदेश उपाध्यक्ष वैभव पाटिल, प्रदेश संगठन मंत्री दीपक चौधरी, सहित सैकड़ों युवा उपस्थित रहे | पूर्व विधायक ने आयोजन की सराहना की और कहा की सम्राट मिहिर भोज महान की जयन्ती के मौके पर रक्तदान जैसे आयोजन से समाज का  मनोबील बढ़ता है |  

Dakhal News

Dakhal News 2 September 2019


ambulence palti

  चालक का संतुलन बिगड़ने से हुआ हादसा     भूत बंगला इलाके में मरीज को ले जा रही एंबुलेंस के पलटने से हड़कंप मच गया  | मरीज को ले कर जा रही एम्बुलेंस के चालक का संतुलन बिगड़ गया  जिसके बाद वाहन पलट गया | एंबुलेंस तेज गति से ओर जा रही थी |        भोपाल के कोहेफिजा थाना अंतर्गत सुजुकी शोरूम के पास भूत बंगला एरिया में  एम्बुलेंस के चालक का संतुलन बिगड़ गया  |  और वाहन पलट गया वाहन के पलटते ही आसपास मौजूद लोग वाहन की ओर दौड़े और वाहन में मौजूद लोगों को अस्पताल ले गए। एंबुलेंस पलटने के बाद कुछ देर के लिए क्षेत्र का यातायात प्रभावित रहा  पुलिस ने  मौके पर पहुंच कर जाम खुलवाया  | 

Dakhal News

Dakhal News 1 September 2019


bachcha chori shak

  दिल्ली के परिवार के साथ सेंधवा में मारपीट       बच्चा चोरी के शक में किसी को भी घेर कर पीटने के मामला आये दिन सामने आ रहे है | लोगों की पिटाई के मामले थमने का नाम ही नहीं ले रहे हैं | ताजा घटना बड़वानी जिले के सेंधवा की है  यहां दिल्ली के परिवार के साथ कुछ लोगों ने बच्चा चोरी के शक में मारपीट की |  बड़ी मश्किल से परिवार अपनी जान बचाकर थाने पहुंच |     दरअसल ये परिवार दिल्ली से मुंबई हाजी अली दरगाह पर चादर चढ़ाने जा रहा था  | जानकारी के मुताबिक जब इनकी कार शहर से गुजर रही थी तो ये पता पूछने के लिए रूक गए |  इसी दौरान कार में बच्चों को देखकर लोगों को बच्चा चोर गिरोह होने का शक हुआ  मामला बिगड़ते देख ये लोग कार लेकर जाने लगे तो बाइक सवार कुछ लोगों ने इनका पीछा शुरू कर दिया और भीड़ ने कार को टोल प्लाजा के पास रोककर परिवार के 5 सदस्यों के साथ मारपीट शुरू कर दी | इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंचीं और उन्हें थाने लेकर आई |  कार में सवार मोहम्मद शहजाद ने बताया कि वो मुंबई जा रहे थे | तभी रास्ते में लोगों ने बच्चा चोर गिरोह समझकर घेर लिया और पिटाई करने लगे |  इस दौरान कई लोगों ने कार में बैठी मेरी बहनों के साथ भी बदसलकूी की | इस बीच मैंने 100 नंबर पर कॉल किया जैसे-तैसे भीड़ से पीछा छुड़ाकर थाने पहुंचे |    

Dakhal News

Dakhal News 1 September 2019


वृक्ष से ही जीवन है - मंत्री श्री आरिफ अकील

  मंत्री श्री अकील ने किया पौध-रोपण   अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री श्री आरिफ अकील ने कहा कि वृक्ष से ही जीवन है। आज लगाये गये पौधे ही कल का भविष्य हैं, जो नई पीढ़ी को स्वच्छ एवं निर्मल वातावरण देंगे। श्री अकील ने यह बात 'हमारा प्रदेश हरा-भरा मध्यप्रदेश'' कार्यक्रम में कही। उन्होंने नारियलखेड़ा स्थित मैदान में बुरहानपुर विधायक श्री ठाकुर सुरेन्द्रसिंह नवलसिंह 'शेरा भैया' के साथ पौध-रोपण किया।   इस मौके पर संभागायुक्त श्रीमती कल्पना श्रीवास्तव उपस्थित थी। पौध-रोपण में पार्षद श्रीमती मंजू धर्मेन्द्र दिवाकर, सुश्री नाजमा अंसारी, पूर्व पार्षद श्री सुधीर गुप्ता, श्री आमिर अकील, श्री कमाल पाशा सहित बड़ी संख्या में जन-सामान्य सहित स्कूल और मदरसे के बच्चे शामिल हु

Dakhal News

Dakhal News 31 August 2019


गोटमार मेला

  दोनों ओर से जमकर  बरसे     पांढुरना में परंपरागत गोटमार मेले का आयोजन  हुआ | परंपरागत तरीके से एक दूसरे को गोट मारे गए इसमें कुल मिलकर तीन सौ लोगों को चोटें आयी हैं | इनमे से एक की हालत गंभीर बताई जा रही है  |  श्रद्धालुओं ने गोटमार की शुरूआत से पहले पलाश के वृक्ष की स्थापना की, ध्वज लगाने के साथ ही मां चंडिका के मंदिर में श्रद्धालुओं ने दर्शन किए | इसके बाद युद्ध का दौर शुरू हुआ  और लोगों ने एक दूसरे पर पत्थर बरसाए  |     गोटमार मेले में इस बार तक़रीबन तीन सौ लोगों को चोटें लगी हैं  | घायलों में एक युवक की पहचान गणेश वानखड़े निवासी पांढुर्ना के तौर पर हुई है  |   घायल युवक के पेट और पसली मे चोट लगी है  |  उसकी चोट को गंभीर बताया जा रहा है  | उसे  नागपुर रैफर कर दिया गया  इस दौरान पुलिस का व्यापक बंदोबस्त किया गया | गोटमार मेले की शुरुआत 17वीं ई. के लगभग मानी जाती है | महाराष्ट्र की सीमा से लगे पांर्ढुना हर वर्ष भादो मास के कृष्ण पक्ष में अमावस्या पोला त्योहार के दूसरे दिन पांर्ढुना और सावरगांव के बीच बहने वाली जाम मे वृक्ष की स्थापना कर पूजा अर्चना कर नदी के दोनों ओर बड़ी संख्या में लोग एकत्र होते हैं और सूर्योदय से सूर्यास्त तक पत्थर मारकर एक-दूसरे का लहू बहाते हैं  | इस घटना में कई लोग घायल हो जाते हैं  |  ढोल ढमाकों के बीच लगाओ-लगाओ के नारों के साथ कभी पांर्ढुना के खिलाड़ी आगे बढ़ते हैं तो कभी सावरगांव के खिलाड़ी | दोनों एक-दूसरे पर पत्थर मारकर पीछे ढकेलने का प्रयास करते है और यह क्रम लगातार चलता रहता है  | खिलाड़ी चमचमाती तेज धार वाली कुल्हाड़ी लेकर झंडे को तोड़ने के लिए उसके पास पहुंचने की कोशिश करते हैं  |  ये लोग जैसे ही झडे के पास पहुंचते हैं  साबरगांव के खिलाड़ी उन पर पत्थरों की बारिश कर देते हैं और पाढुर्णा वालों को पीछे हटा देते हैं  | शाम को पांर्ढुना पक्ष के खिलाड़ी पूरी ताकत के साथ चंडी माता का जयघोष एवं भगाओ-भगाओ के साथ सावरगांव के पक्ष के व्यक्तियों को पीछे ढकेल देते है और झंडा तोड़ने वाले खिलाड़ी, झंडे को कुल्हाडी से काट लेते हैं  | जैसे ही झंडा टूट जाता है, दोनों पक्ष पत्थर मारना बंद करके मेल-मिलाप करते हैं और गाजे बाजे के साथ चंडी माता के मंदिर में झंडे को ले जाते है  |           

Dakhal News

Dakhal News 31 August 2019


selfie dhara 144

किशोरी के डूबने के बाद लिया फैसला  पर्यटन स्थलों पर सेल्फी लेने पर 144  खरगोन कलेक्टर गोपालचंद्र डाड ने पर्यटन स्थलों पर सेल्फी लेने पर धारा 144 लगाई है  |   जिले में स्थित झरने, प्रमुख घाट, नदी, पुल के पास सेल्फी लेने वालों के खिलाफ धारा अब 144 के तहत कार्रवाई होगी | सेल्फी के चक्कर में एक लड़की के नर्मदा में डूब जाने के बाद यह फैसला लिया गया | खरगौन  जिले में स्थित झरने, प्रमुख घाट, नदी, पुल के पास सेल्फी लेने वालों के खिलाफ धारा अब 144 के तहत कार्रवाई होगी  |  मंडलेश्वर नर्मदा पुल पर  अपने भाई के साथ युवती वंदना यादव 15 नर्मदा का पूजन कर मछलियों को चने डालने वाली थी  |इसके लिए वो रैलिंग पर चढ़ी  | भाई अपने मोबाइल से उसकी तस्वीर खींची और कुछ ही पल में बहन एक झोंके से साथ उफनती नर्मदा में संमा गई  | इसके कुछ दिन पहले  भी इसी पुल से रुपाली पटेल भी पुल से नर्मदा नदी में गिरी थी  | दोनों की सर्चिंग की जा रही है   | इन घटनाओं के मद्देनजर  गुरुवार को कलेक्टर डाड ने जिले के सभी प्रमुख घाट, झरनों और जोखिम भरे सभी स्थानों पर सेल्फी लेने वाले के खिलाफ धारा 144 के तहत कार्रवाई के निर्देश जारी किए हैं   |  

Dakhal News

Dakhal News 31 August 2019


navjat bhadbhada

  छोटे से बच्चे को किसी ने तालाब में फैंके    भोपाल के भदभदा डैम के पास एक नवजात शिशु का शव मिलने से सनसनी फ़ैल गई | बच्चा दो से तीन दिन का बताया जा रहा है | बच्चे को किसने फेका है इसका पता नहीं लगाया जा सका है |    भोपाल के भदभदा डैम  में  एक नवजात बच्चे का शव  मिला |  बच्चा 2 से 3 दिन का बताया जा रहा है | बच्चा पानी में मृत अवस्था में पाया गया कयास लगाए जा रहे है की बच्चे की मृत्यु के बाद उसे यहाँ फेक दिया गया  है | फिलहाल बच्चे को किसने फेका है | उसका अभी पता नही लग पाया है |सूचना मिलते ही मौके पर पहुँची   पुलिस की टीम ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है | पुलिस ने बच्चा फेकने वाले की तलाश शुरू कर दी है |

Dakhal News

Dakhal News 31 August 2019


pola cm house

  परम्परागत तरीके से हुई  साज-सज्जा    छत्तीसगढ़ में पहली बार  पोला तीज का त्योहार मुख्यमंत्री निवास में उत्साह के साथ मनाया गया  | इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी उत्साह में दिखे और बच्चों को चाकलेट बांटी | यहां कई महिलाएं भी पारंपरिक परिधान में पोला तीजमनाने पहुंची |  प्रदेश में कांग्रेस सरकार आने के बाद पहली बार ऐसा हो रहा है कि छत्तीसगढ़ी त्योहारों को तवज्जो दी जा रही है |    पोला तीज त्योहार मनाने के लिए छत्तीसगढ़ की परंपरा और रीति-रिवाज के अनुसार मुख्यमंत्री निवास में साज-सज्जा की गई | इस मौके पर नंदी-बैल की पूजा की गई,  तीजा महोत्सव के लिए प्रदेश के विभिन्न् स्थानों से आई  बहनों द्वारा करूभात खाने की रस्म पूरी की  गई और  छत्तीसगढ़ के पारम्परिक खेलों का भी आयोजन किया गया | छत्तीसगढ़ का पोरा तिहार मूल रूप से खेती-किसानी से जुड़ा पर्व है |  खेती किसानी में बैल और गौवंशीय पशुओं के महत्व को देखते हुए इस दिन उनके प्रति आभार प्रकट करने की परम्परा है | छत्तीसगढ़ के गांवों में बैलों को विशेष रूप से सजाया जाता है | उनकी पूजा-अर्चना की जाती है | घरों में बच्चे मिट्टी से बने नंदीबैल और बर्तनों के खिलौनों से खेलते हैं | घरों में विभिन्न पकवान तैयार किए जाते हैं और उत्सव मनाया जाता है |छत्तीसगढ़ की विशिष्ट परम्परा है, महिलाएं तीजा मनाने मायके आती हैं | छत्तीसगढ़ में तीजा पर्व की इतना अधिक महत्व है कि बुजुर्ग महिलाएं भी इस खास मौके पर मायके आने के लिए उत्सुक रहती हैं | महिलाएं पति की दीर्घायु के लिए तीजा पर्व के एक दिन पहले करू भात ग्रहण कर निर्जला व्रत रखती हैं  | आज ये सारे नज़ारे मुख्यमंत्री निवास में देखे गए |  

Dakhal News

Dakhal News 31 August 2019


कलेक्ट्रेट में गाय

किसान कलेक्ट्रेट में छोड़ गए दर्जनों गाय  फसलों को नुकसान पहुंचा रहे हैं आवारा पशु    हरदा कलेक्ट्रेट में उस समय बड़ा अजीब नजारा था जब बड़ी संख्या में गायें पहुँच गईं | ऑफिस खुलने का समय हो रहा था | कलेक्ट्रेट  कर्मचारियों ने तत्काल गायों को परिसर से बाहर निकाला |  गुरुवार सुबह हरदा कलेक्ट्रेट में अचानक दर्जनों गाय पहुंच गई | जिस वक्त गाय कलेक्ट्रेट ऑफिस के भीतर घुसी, उस समय वहां कोई नहीं था | कुछ देर बाद जब लोग पहुंचे तो परिसर में दर्जनों गायों को देखकर हैरत में पड़ गए | किसी को कुछ समझ ही नहीं आया कि, अचानक कैसे इतनी सारी गाय  कलेक्ट्रेट  के भीतर दाखिल हो गईं | इसके बाद चपरासी ने गायों को परिसर से बाहर निकाला और पूछताछ शुरू कि तो ये पता चला कि इन गायों को किसान यहां लेकर पहुंचे थे |  हरदा इलाके के किसान लंबे वक्त से आवारा पशुओं से परेशान हैं |  आवारा पशु इनकी खड़ी फसलों को नुकसान पहुंचा रहे हैं  |कलेक्टर को कई बार इसकी शिकायत की, लेकिन जब हल नहीं निकला तो किसानों को मजबूरी में ऐसा कदम उठाना पड़ा |कलेक्ट्रेट ऑफिस में गायों को लाने से पहले ये किसान इन्हें कांजी हाउस लेकर भी गए थे | मगर वहां इन्हें रखने की जगह ही नहीं थी   ऐसे में किसान सभी पशुओं को कलेक्ट्रेट ले आए |    

Dakhal News

Dakhal News 29 August 2019


anokhi shadi

  पुलिस वालों ने करवाई प्रेमी जोड़े की शादी    एक प्रेमी जोड़े ने शादी के लिए पुलिस से मदद माँगी |. पुलिस ने दोनों प्रेमियों के परिजनों को समझाबुझा कर उनकी शादी करवा दी  | शादी भी पुलिस स्टेशन के परिसर में बहुत ही सादगी से हुई  मामला मध्यप्रदेश के सिवनी का है|    केवलारी थाना परिसर में प्रेमी ने युवती की मांग भरकर नवदाम्पत्य जीवन की शुरुआत की | दरअसल, युवक के परिजनों की आपत्ति के बाद प्रेमी जोड़े ने शादी में आ रहे गतिरोध पर केवलारी पुलिस से मदद मांगी थी | पुलिस की समझाइश के बाद दोनों के  परिजन मान गए और थाना परिसर में ही स्थित शिव मंदिर में ग्वारी गांव निवासी अरविंद कुमरे  व सिवनी बरघाट  निवासी राजकुमारी मर्सकोले का विवाह कराया गया | पूजन के बाद प्रेमी जोड़े ने एक दूसरे को वरमाला डालकर अपना जीवन साथी बनाया  | जानकारी के मुताबिक युवक अरविंद सौंसर चेकपोस्ट में आरटीओ आरक्षक के पद पर पदस्थ है जबकि युवती राजकुमारी सिवनी के निजी स्कूल में शिक्षक के तौर पर कार्यरत है| पुलिस के मुताबिक दोनों के बीच करीब डेढ़ साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था  |.लेकिन युवक के परिजन विवाह के लिए तैयार नहीं थे | इस मामले की जानकारी युवक व युवती ने थाना प्रभारी केके अवस्थी को दी  युवक अपनी प्रेमिका के साथ सोमवार को केवलारी थाने पहुंचा  यहां टीआई केके अवस्थी ने प्रेमी जोड़े के परिजनों को समझाइश दी कि दोनों बालिग हैं | ऐसे में वे अपना जीवन साथी स्वयं चुन सकते हैं | समझाइश के बाद परिजन विवाह के लिए राजी हो गए  इसके बाद थाना परिसर में ही युवक ने प्रेमिका की मांग सिंदूर से भरकर उसे मंगलसूत्र पहनाया | इस दौरान केवलारी थाने का  स्टाफ  और क्षेत्र के सामाजिक कार्यकर्ता  मौजूद रहे|

Dakhal News

Dakhal News 28 August 2019


किन्नर

  नकली किन्नर को किया पुलिस के हवाले    असली और नकली किन्नरों के बीच विवाद कोई नई बात नहीं है | महू में जब असली किन्नरों को नकली किन्नर मिला तो उसकी अच्छे से खबर ली गई और उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया |   महू के किशनगंज इलाके में जब असली किन्नर बाजार में निकले तो उन्हें एक नकली किन्नर लोगों से पैसे मांगता दिखा  इसके बाद  असली किन्नर  वहीं उतर गए  |  असली किन्नरों को देख  नकली का पसीना छूट गया | फिर किन्नरों ने उसकी जमकर पिटाई की और पकड़कर पुलिस के पास ले गए | किन्नरों द्वारा विवाद का यहां पहला मामला नहीं है | कुछ दिनों पहले भी यहीं रेखा बाई नाम की एक किन्नर की दूसरे गुट के किन्नरों ने पिटाई कर दी थी  महू में यह विवाद काफी समय से हो रहा है | जब असली किन्नरों ने नकली को पकड़ा तो बाजार में भीड़ जमा हो गई | इसके बाद नकली की धुनाई करने के बाद असली किन्नर उसे कार में ही बैठाकर ले गए  |   

Dakhal News

Dakhal News 28 August 2019


masoom sariya

  डॉक्टरों ने सरिया निकाल के बच्चे को बचाया    एक तीन साल का बच्चा सीढ़ियों से मकान के पिलर पर जा गिरा और पिलर का सरिया मासूम के पेट को छेदता हुआ पीठ से जा निकला | डॉक्टर्स ने  ऑपरेशन कर बड़ी मशक्क्त के बाद मासूम के पेट से सरिये को निकाला दिया | लेकिन मासूम बच्चे की स्थिति अभी गंभीर बनी हुई है |     रीवा के रायपुर कर्चुलियान थाना के पहाड़िया गांव में तीन साल के मासूम  रूद्र के पेट में सरिया घुस गया, जो पीठ के बाहर तक निकल गया  | यह घटना उस समय हुई, जब  शिवेंद्र पांडे का मासूम बच्चा  रूद्र सीढ़ी से नीचे उतर रहा था और फिसल जाने के कारण वह पिलर पर जा गिरा जिसमें सरिया निकला हुआ था | मासूम सरिया में फंसा चीखता-चिल्लाता रहा | जब परिजन की नजर उस पर पड़ी तो उनके होश उड़ गए  जैसे तैसे सरिया काट कर मासूम को  संजय गांधी अस्पताल ले जाया गया |  जहाँ चार डॉक्टरों की टीम ने सवा घंटे तक ऑपरेशन कर मासूम के जिस्म से सरिया निकाला   संजय गांधी अस्पताल के सीएमओ डॉ. रत्नेश त्रिपाठी ने बताया कि शिवेंद्र पांडेय के तीन वर्षीय बेटे रुद्र का ऑपरेशन सफल रहा है |  अभी बच्चे को वेंटीलेटर पर रखा गया है |    

Dakhal News

Dakhal News 26 August 2019


aarop

  युवती ने आत्मघाती कदम उठाने की दी चेतावनी     जेल विभाग में  पदस्थ एक युवति ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं |   छेड़खानी जैसे संगीन मामले में युवति के शिकायत दर्ज कराने के बाद भी पुलिस ने  आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया आरोपियो द्वारा युवती को लगातार धमकी देकर प्रताडित  किया जा रहा है  |  जिससे परेशान युवती न्याय की आस लिए पुलिस के आला अधिकारियों के चक्कर काटने  पर मजबूर है |   युवति ने न्याय नही मिलने पर आत्मघाती कदम उठाने की चेतावनीभी दी है |     सागर में  एसपी कार्यालय के चक्कर काट रही यह युवती जेल विभाग मे पदस्थ पुलिस प्रहरी है |    युवतिका आरोप है की 6 जून को मुरैना के रहने वाले रवि शर्मा अवधेश शर्मा और रामनिवास शर्मा ने  एक मामले मे विश्वविद्यालय उसे चर्चा के लिए बुलाया था |    जहाँ कुछ दूरी पर एकांत मे ले जाकर आरोपी द्वारा युवती से दुर्व्यवहार कर जान से मारने की धमकी दी गई   |  बड़ी मुश्किलें से वह वहाँ से इन लोगो की गिरफ्त से निकल अपने घर पहुँची   युवती इस धटना से इतनी सहम गई थी  की डर के कारण उसने किसी को कुछ नही बताया |     पर आरोपियो द्वारा लगातार उसे अलग अलग नंबर से फोन कर धटना को लेकर धमकाया जाने लगा    जिसके चलते उसने अपने मंगेतर को इसकी जानकारी दी | और  कुछ दिनों बाद धटना की रिपोर्ट का आवेदन थाना सिविल लाइन मे दे दिया    उप निरीक्षक वर्मा ने  शिकायत को फर्जी बता उसका आवेदन फाड़ कर फेक  दिया  |    जिसके बाद इस मामले में आई जी के पास गुहार लगाई गई   बाद में  सिविल लाइन थाना पुलिस द्वारा  आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला तो कायम कर लिया     पर विवेचना के नाम पर थाना पुलिस द्वारा टालमटोल कर अब तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है  | पीड़िता के मुताबिक इस मामले में आरोपियों में से एक व्यक्ति चंबल रेंज की कमिश्नर का रिश्तेदार है  |  जिसके चलते पुलिस इस मामले में कार्रवाई करने से किनारा कर रही है |     पीड़िता के मुताबिक इस सिलसिले में उसके द्वारा कई बार पुलिस अधीक्षक से भी न्याय की गुहार लगाई गई  |   पर मामला हाई प्रोफाइल लोगों से जुड़े होने के कारण कोई कार्यवाई नहीं की गई  आरोपियों की हौसले बुलंद है और वह पीड़ित पर दबाव बना उसे परेशान कर रहे |    पीड़िता ने इस मामले में आरोपियों द्वारा उसके कुछ फोटो को भी वायरल कर उसे बदनाम करने का आरोप लगाया है|  जिसके चलते वह मानसिक रूप से परेशान है | और  मामले मे आरोपियो के खिलाफ जल्द उचित कारवाई नही किए जाने पर  आत्मघाती कदम उठाने की बात कह रही है    वही इस मामले में एडिशनल एसपी राजेश व्यास ने  युवति के पुलिस पर दबाव के तहत कार्रवाई नहीं करने के लगाए जा रहे आरोपों को   सिरे से खारिज कर दिया  है |   उनका कहना है की  मामले में पुलिस की विवेचना जारी है  |  जहां जल्द ही इस मामले मे नियमानुसार कारवाई होगी |       

Patrakar amitabh upadhyay

amitabh upadhyay 26 August 2019


lash  mili

  सुसाइड नोट हुआ बरामद ,पुलिस कर रही जांच   एक किराये के मकान में युवती की लाश संदिग्ध हालत  में फांसी पर लटकी मिली     मौके पर पहुँची पुलिस को एक सुसाइड नोट बरामद हुआ  है |  जिसमे युवती ने अपने बच्चों को छोड़कर आने पर आत्महत्या करने की वजह बताई है  | पुलिस ने सुसाइड नोट और मोबाइल को  कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है|   ग्वालियर व्यापार मेला मैदान के पास  विवेक विहार में एक युवती की लाश संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी पर लटकी मिली     मकान भाजपा नेता रामेश्वर भदौरिया का बताया जा रहा  |   रामेश्वर के बेटे हरेंद्र भदोरिया के मुताबिक भिंड के रहने वाले धर्मेंद्र उर्फ धर्मवीर तोमर ने शुक्रवार को ही उनके मकान में कमरा किराए से लिया था | धर्मवीर सिंह तोमर ने  हरेंद्र को फोन कर कहा की  उसकी पत्नी से कमरे में जाकर किराया ले लें  |  जब हीरेन्द्र किराया लेने पहुंचा तो  दरवाजा अंदर से बंद था | और आवाज लगाने पर दरवाजा नहीं खोला जा रहा था  | उसने धर्मेंद्र को फोन लगाकर हालात से अवगत कराया  |   इसके बाद हरेंद्र ने पुलिस को सूचना देना उचित समझा  |  कुछ ही देर में थाटीपुर पुलिस मौके पर पहुंच गई   पुलिस ने अंदर खिड़की से झांक कर देखा तो रसोई में फांसी से लटकी हुई आरती शर्मा उर्फ आरती तिवारी की लाश नजर आई |   पुलिस ने  धर्मवीर तोमर को फोन लगाया  लेकिन वह मौके पर नहीं पहुंचा     प्रारंभिक पड़ताल में पुलिस ने कमरे की तलाशी ली तो पुलिस को मौके से एक सुसाइड नोट मिला  जिसमें आरती ने अपने दो बच्चों को छोड़कर आने पर अफसोस जताते हुए आत्महत्या की बात लिखी है |    और किसी को भी दोषी नहीं ठहराए जाने को भी कहा इसके अलावा उसके दो आधार कार्ड मिले हैं जिनमें इंदौर का पता लिखा हुआ है  |  पुलिस सुसाइड नोट और मौके पर मिले मोबाइल की पड़ताल कर रही है   समझा जाता है कि आरती ने मरने से पहले मोबाइल पर अपनी क्लिपिंग भी बनाई है |         

Dakhal News

Dakhal News 26 August 2019


उफनता नाला और बच्चे

  छत्तीसगढ़ के नेता -अधिकारी किसी का नहीं है ध्यान    स्कूली बच्चे रायगढ़ के घरघोड़ी में जान जोखिम में डाल कर उफनते नाले को पार करते हैं  | कई सारे अधिकारी और नेता यहाँ आये गए हो गए लेकिन किसी ने भी इन बच्चों की चिंता नहीं की |  ग्रामीणों ने कई बार अपनी समस्या सब को बताई लेकिन कोई सुनने वाला नहीं है   |   रायगढ़ जिला मुख्यालय से महज 45 किलोमीटर दूर बसा  ग्राम बेलडिपा के बच्चे इन दिनों स्कूल जाने के लिए रोज अपनी जान जोखिम में डालते हैं  |  यह सिलसिला साल में चार महीने चलता है   |इन बच्चों के लिए स्कूल जाना और वहां से वापस आना किसी जोखिम से कम नहीं है  | घरघोडी और बेलडिपा के बीच एक नाला पड़ता है  |  इस नाले को जरकट नाला के नाम से जाना जाता है, जिसमें स्थानीय ग्रामीणों द्वारा पुल बनाने की मांग कई वर्षों से की जा रही है   |परंतु यह दुर्भाग्य है देश की आजादी के 73 वर्ष के बाद भी कोई नेता और अधिकारी यहाँ एक छोटा सा पुल तक नहीं बनवा सका  |  बारिश में पानी आते ही नाला उफान पर आ जाता है और इस पर एक रस्सा बांधा जाता है  | फिर लोग बच्चों को पीठ पर बैठाकर नाला पार करवाते हैं और अगर कोई बड़ा साथ न हो तो बच्चों की खुद ही उफनता नाला पार करना पड़ता है  | इन ग्रामीणों की मांगों को आज तक किसी जनप्रतिनिधि और अधिकारी ने नहीं सुना  |  बारिश के दौरान यह गांव एक टापू के रूप में बन जाता है   |    ग्रामीणों में इस बात का भय हमेशा बना  है कि किसी प्रकार कोई हादसा न हो जाए      

Dakhal News

Dakhal News 25 August 2019


इंदौर सफाई

  सबसे साफ़ शहर के लोग हैं ज्यादा जगरूक 2 हजार लोग सफाई करने उतरे सड़कों पर   हर साल की तरह इस साल भी नगर निगम में काम करने वाले वाल्मीकि समाज के सफाईकर्मियों की रविवार को गोगानवमी पर अवकाश है, लेकिन इससे शहर की सफाई व्यवस्था प्रभावित नहीं हुई  |  यह काम शहर की विभिन्न सामाजिक, व्यावसायिक संस्थाओं के प्रतिनिधि, निजी कंपनियों के कर्मचारी, बैंक कर्मी, छात्र-छात्राएं, रहवासी संगठन और एनजीओ प्रतिनिधिनियों ने संभाला  |   ऐसे करीब दो हजार नागरिकों ने रविवार सुबह सफाई व्यवस्था में श्रमदान किया |    इन्दौर के सफाई कर्मचारी गोगानवमी के मौके पर अवकाश पर थे   | ऐसे में शहर साफ़ करने के लिए लोग सड़कों पर उतर आये  |  इंदौर के लोगों का सफाई के प्रति जूनून देखने लायक था  |  सुबह सात बजे से ये लोग शहर के अलग-अलग हिस्सों में जुटे और प्रमुख स्थानों और सड़कों की सफाई की  |   निगमायुक्त आशीष सिंह ने बताया कि सफाई कर्मियों के छुट्टी पर होने से शहर की सफाई प्रभावित न हो और सफाई के क्षेत्र में बनी इंदौर की पहचान बनाए रखें  |  इसके लिए संगठनों से आग्रह किया गया था कि वे एक दिन सुबह दो-तीन घंटे का समय शहर के लिए निकालें  |   इस दौरान सुबह खुद निगमायुक्त और नगर निगम के अन्य अधिकारी भी सफाई अभियान में शामिल हुए  |  निगमायुक्त ने शनिवार को अधिकारियों के साथ बैठक कर स्वच्छता सर्वे 2020 की तैयारियां युद्ध स्तर पर करने के निर्देश दिए  |   सिटी बस ऑफिस में हुई बैठक में उन्होंने स्वच्छ सर्वे की स्टार रेटिंग के मापदंड और बिंदु बताए   | उन्होंने कहा कि निगम स्वच्छता का चौका लगाने के लिए सारी तैयारियां पूरी रखें  |  इस बीच गोगानवमी का मसला आया तो शहर की विभिन्न सामाजिक, व्यावसायिक संस्थाओं के प्रतिनिधि, निजी कंपनियों के कर्मचारी, बैंक कर्मी, छात्र-छात्राएं, रहवासी संगठन और एनजीओ प्रतिनिधिनियों ने खुद सफाई का मोर्चा सम्हाल लिया और पूरे देश को स्वछता को लेकर एक ख़ास सन्देश भी दे दिया कि आम लोग चाहें तो चुटकी बजाते ही पूरा शहर साफ़ हो सकता है  |   

Dakhal News

Dakhal News 25 August 2019


सुखी नदी में बाढ़

बारिश से बैतूल-भोपाल के बीच सड़क संपर्क टूटा भारी बारिश के चलते सुखी नदी में आई बाढ़   बैतूल में शुक्रवार की रात से तेज बारिश हो रही है |   पिछले 10 घंटे के भीतर 40 मिमी बारिश दर्ज की गई है |  तेज बारिश से नदी-नालों में बाढ़ के हालात बन गए हैं | इस कारण बैतूल से भोपाल के बीच सड़क संपर्क बन्द रहा |      शाहपुर तहसील के भौरा के पास सुखी नदी में बाढ़ के कारण पुल पर पानी आ गया है  |   धार और भौरा के पास वाहनो की लंबी कतारें लगी हुई है  |  बारिश लगातार जारी रहने के कारण शाहपुर में भी माचना नदी का पानी पुल पर  है  |  इससे शाहपुर और बैतूल के बीच भी सड़क सम्पर्क  बंद सा है  |   बैतूल जिले में इस सीजन में अब तक 718 मिमी बारिश हो चुकी है  | जिले के आमला ब्लॉक में  तेज बारिश हो रही है |  इलाके की सभी नदियों में बाढ़ की स्थिति है |   आमला से खानापुर मार्ग पर कुड़मुड़ नदी में बाढ़ से पुल बना रही कम्पनी की मशीनें डूब गईं हैं |   पुल के पास गिट्टी से भरा खड़ा डम्पर भी पानी अधिक आ जाने से फंस गया  |  

Dakhal News

Dakhal News 24 August 2019


माता कृष्ण

  होठों से लगी बांसुरी और सजा मोरपंख मुकुट   गोटेगांव के परमहंसी स्थित त्रिपुर सुंदरी माता मंदिर में भगवती की प्रतिमा का श्रीकृष्ण रूप में मनोहारी श्रृंगार किया गया है |माँ त्रिपुर सुंदरी भगवान् कृष्ण जैसी नजर आयीं | उनके सिर पर मोरपंख का मुकुट था और होठों पर बांसुरी |    नरसिंहपुर जिले में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी उत्सव  धूमधाम से शुरू हो गया है |   आर्कषक रूप से सजे मंदिरों में भगवान राधा-श्रीकृष्ण की मनोहारी झांकिया सजाई गईं हैं और तोरण द्वारों से मंदिरों के कपाट भगवान के जन्म का उत्सव मना रहे हैं  |  गोटेगांव के परमहंसी स्थित त्रिपुर सुंदरी माता मंदिर में भगवती की प्रतिमा का श्रीकृष्ण रूप में मनोहारी श्रृंगार किया गया है  | खास परिधान में श्रीकृष्ण बनी माता के होठों से बांसुरी लगाई गई है तो वहीं मोरपंख का मुकुट माता के सिर की शोभा बढ़ा रहा है |  मां की प्रतिमा की दोनों तरफ कामधेनु गायों की झांकी यहां आने वाले श्रद्धालुओं को मंत्रमुग्ध कर रही हैं |   इस मंदिर में अक्सर मां का ऐसा ही श्रृंगार किया जाता है  | सावन सोमवार के दिन भी मां को भगवान भोलेनाथ के रूप में सजाया गया था  |

Dakhal News

Dakhal News 23 August 2019


सड़क हादसा

  सभी मृतक एक ही परिवार के    अजमेर से महाराष्ट्र जा रहे लोगों की एक जीप खड़े ट्रक से जा टकराई   | इस हादसे में मौके पर ही तीन लोगों ने दम तोड़ दिया  |  यह हादसा रतलाम के पास हुआ   |     रतलाम में फोरलेन पर चिकलिया टोल नाके के पहले अजमेर से दर्शन कर लौट रहा परिवार हादसे का शिकार हो गया   |  इस हादसे में जहां तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, वहीं पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं  |   जिनका इलाज जिला चिकित्सालय रतलाम में चल रहा है  |   सभी लोग अजमेर शरीफ दरगाह में जियारत करने के बाद वापस महाराष्ट्र जा रहे थे  |   टक्कर इतनी जोरदार थी कि जिस जीप का अगला हिस्सा पूरी तरह चकनाचूर हो गया   इस दुर्घटना में शफीक शेख  का परिवार सफर कर रहा था  |  शफीक की पत्नी अलीशा, पिता सलीम शेख, ओर एक रिश्तेदार रहीम की घटना स्थल पर ही मौत हो गई   बाकी लोग बुरी तरह घायल हो गए हैं   |   हादसे में शफीक की डेढ़ साल की बेटी अहील को खरोंच तक नहीं आई है  |     

Patrakar Anurag Upadhyay

Anurag Upadhyay 23 August 2019


pizza delivery boy

  अश्लील मैसेज भेजने वाले पिज्जा बॉय की पिटाई    रायपुर में पिज्जा हट का डिलेवरी ब्वॉय गौरव लड़कियों से फीडबैक लेने के बहाने अश्लील मैसेज भेज रहा था  |  पिज्जा बॉय की इस करतूत का पता चलते ही उसकी जमकर पिटाई की गई    |  जानकारी के अनुसार मामला रायपुर स्टेशन रोड स्थित एक पिज्जा सेंटर का है, जहां कार्यरत डिलेवरी बॉय गौरव फीडबैक के नाम पर लड़कियों का मोबाइल नंबर लेने के बहाने उन्हें अश्लील मैसेज भेजा करता था  |      अश्लील मैसेज करने की शिकायत पीड़ित लड़कियों ने अपने परिजन से की थी  |    सच्चाई सामने आने पर लोगों ने डिलेवरी ब्वॉय की तलाश कर उसकी जमकर पिटाई की |    इसका वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने पर घटना की चारों तरफ चर्चा होने लगी   |   फिलहाल थाने में इसकी रिपोर्ट नहीं लिखाई गई है  इधर पिज्जा हट चलने वालों ने कहा कि हमारे लिए अपने ग्राहकों की सुरक्षा और गोपनीयता अत्यंत महत्वपूर्ण है और हमारे सारे फ्रेंचाइजी इस पहलू के प्रति जागरूक हैं   |  हमारे फ्रेंचाइजी ने इस अफसोसजनक घटना के बारे में तत्काल कार्रवाई की है और संबंधित स्टाफ सदस्य को अस्थायी रूप से निलंबित भी कर दिया है  |   फ्रेंचाइजी की आंतरिक अनुशासन समिति इस मामले को प्राथमिकता देते हुए इसकी जांच कर रही है और इस संबंध में जल्द  निर्णय  लिया जाएगा  |    

Dakhal News

Dakhal News 22 August 2019


cobra saap

  कैमरा प्रेमी ब्लैक कोबरा    कोबरा का फोटो ले रहा फोटोफ्रॉगर उस समय हैरत में पड़ गया जब कोबरा उसके कैमरे से लिपट गया   |  कोबरा की इस हरकत को  हर कोई अचरज भरी नज़रों से देखता रहा  ये वाकया सागर का है |    साँप का नाम सुनते ही कपकपी छूट जाती है  |   सांप भी अगर कोबरा और वह भी ब्लैक कोबरा हो तो कहना ही क्या   लेकिन यहाँ हम बात कर रहे हैं सागर के तालाब किनारे की एक कॉलोनी की    |   जहाँ एक कोबरा निकला  |   फोटोग्राफर शशांक तिवारी  भी कोबरा का फोटो लेने पहुंचे   शशांक ने फर्श  पर अपना कैमरा रखा ही था की नाग महाराज आकर कैमरे से लिपट गए   |   हर कोई कोबरा के इस कैमरा प्रेम से हैरत में था  |  इसके बाद  सर्प विशेषज्ञ  अकील बाबा ने आकर कोबरा को पकड़ा   |  तब जाकर गोटोग्राफर को उनका कैमरा वापस मिला  |  

Dakhal News

Dakhal News 22 August 2019


किसान सर्वे

  किसानों का एबी रोड पर चक्काजाम   मध्यप्रदेश के कई इलाकों में ज्यादा बारिश होने से फसलें बर्बाद हो गई हैं और किसान परेशान है | किसानों के आग्रह के बाद भी अधिकारी ठीक से सर्वे नहीं कर रहे हैं और मजबूरन किसान आंदोलन का रास्ता अख्तियार कर रहे हैं |  अतिवृष्टि के कारण किसान परेशान है  | कई जगह फसल चौपट हो गई है और अधिकारी किसानों की सुन नहीं रहे हैं  | शाजापुर जिले में हुई अतिवृष्टि से किसानों की सोयाबीन फसल बर्बाद हो गई है  | पौधों में अफलन के हालात है, इससे किसान परेशान है और फसल सर्वे की मांग कर रहे हैं  |  मंगलवार को दर्जनों किसान सर्वे कर मुआवजा देने की मांग को लेकर कलेक्टर के पास पहुंचे और तुरंत सर्वे कराने की मांग की | जब अधिकारीयों ने उनकी बात नहीं सुनी तो मजबूरन  किसान हाईवे पर पहुंचे और जाम लगा दिया  | जाम लगने की खबर के बाद अधिकारीयों की नींद खुली   | एसडीएम यूएस मरावी मौके पर पहुंचे और किसानों को समझाइश देकर जाम खुलवाया | शाजापुर जैसे हालात पूरे मालवा इलाके के साथ प्रदेश के कई हिस्से में बने हुए हैं | लेकिन अधिकारीयों की नींद अभी पूरी तरह खुली नहीं है | किसान तफ्तारों के चक्कर लगा लगा के परेशान हैं और आंदोलन का मन बना रहे हैं |

Patrakar amitabh upadhyay

amitabh upadhyay 20 August 2019


food poisoning

  खराब दाल -चावल बने बीमारी का कारण   एक विवाह समारोह में बने खराब दाल चावल लोगों की सेहत पर भारी पड़ गए  | इन दाल चावल की वजह से 22 बच्चों की सेहत इतनी बिगड़ गई कि उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाना पड़ा  | ये मामला खरगोन का है  |  खरगोन के ग्राम सिरवेल में शादी समारोह में खाना खाने के बाद 22 बच्चे बीमार हो गए  |  बच्चों को उल्टी की शिकायत के बाद में एंबुलेंस से खरगोन के निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया | बताया जा रहा है कि सिरवेल गांव में शादी समारोह था जिसमें दाल-चावल खाने के बाद बच्चों को उल्टियां होने लगी   | जिसमें करीब 22 से बच्चों की हालत देखते देखते खराब होने के बाद उन्हें तत्काल निजी एंबुलेंस से अस्पताल  भेजा गया  | जहां पर डॉक्टरों ने उपचार के बाद में बच्चों की स्थिति सामान्य बताई है  | भगवानपुरा विधायक केदार डावर बच्चों का हाल जानने अस्पताल पहुंचे और उन्होंने बताया कि बच्चों द्वारा दाल-चावल खाने के बाद से उन्हें फूड पाइजनिंग हुई थी  |  

Dakhal News

Dakhal News 13 August 2019


mukesh ambani

Reliance AGM /मुंबई      सेट टॉप बॉक्स में मल्टीप्लेयर गेमिंग 500 रुपए में फिक्स्ड लाइन से सब फ्री    मुकेश अम्बानी की रिलायंस इंडस्‍ट्रीज को कंपनी के इतिहास का सबसे बड़ा निवेश मिला है |  दरअसल, RIL के ऑयल और केमिकल डिविजन में सऊदी अरब की कंपनी ''सऊदी अरेमेको'' 20 फीसदी का निवेश करेगी | यह जानकारी रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने दी |  इस दौरान उन्होंने देश में अपने बहुप्रतिक्षित जियो गीगाफायबर के कमर्शियल लॉन्च की घोषणा की   |   उन्होंने कहा कि जियो गीगा फायबर जियो की तिसरी वर्षगांठ यानी 5 सितंबर से कमर्शियली शुरू किया जाएगा   |    vo 1  रिलायंस की एनुअल जनरल मीटिंग को संबोधित करते हुउ मुकेश अंबानी ने बताया कि विदेशी निवेश के मामले में हमने एक नया मुकाम हासिल किया है....  मुकेश अंबानी के मुताबिक R I L ने सऊदी अरेमेको के साथ करार किया है... इसके लिए वह 75 बिलियन डॉलर खर्च करेगी |  मुकेश अंबानी ने मोदी सरकार के 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी के लक्ष्‍य पर भरोसा जताया  |  उन्‍होंने कहा कि वर्तमान में भारत की इकोनॉमी में थोड़ी सुस्‍ती है लेकिन यह अस्‍थायी है....  पिछले दिनों पीएम मोदी ने भारत की अर्थव्यवस्था को 5 ट्रिलियन डॉलर का लक्ष्य रखने की बात कही |   यह आगे मुमकिन होता दिख रहा है... इसके बाद ईशा और आकाश अंबानी ने जियो फाइबर सर्विसेस का डेमो दिया  |   इन्होंने बताया कि आज 5 लाख से ज्यादा लोग इसकी टेस्टिंग कर रहे हैं  ... कंपनी का प्लान है कि 20 मिलियन परिवारों और 15 मिलियन बिजनेस तक पहुंचने का है  | मुकेश अंबानी ने इस दौरान कहा कि हम आज फायबर नेटवर्क की मदद से घरों और दफ्तरों में तेज इंटरनेट सेवा देने में सक्षम हैं   |  उपनिषदों में लिखा है कि तमसो मा ज्योतिर्गमय  |  मतलब अंधेरे से उजाले की और ले चलो   vo 2  उन्होंने दावा किया कि जियो के पहले भारत में डेटा डार्क था लेकिन अब डेटा शाइनिंग कर रहा है  |  आज 340 मिलियन यूजर हैं   |  जियो भारत में सबसे बड़ा ऑपरेटर बना साथ ही दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा ऑपरेटर बन गया है |  मुकेश अंबानी ने अपनी कंपनी ने दुनिया की सबसे बड़ी ऑइल उत्पादक कंपनी के निवेश की घोषणा की   |  उन्होंने कहा कि यह भारत में अब तक का सबसे बड़ा विदेशी निवेश है    | जियो गीगा फाइबर के प्लान सबसे प्रीमियम सर्विसेस के साथ आएंगे   |  जिस दिन फिल्म होगी रीलिज होगी उसी दिन घर में बैठकर उसका मजा ले सकेंगे  | जियो फर्स्ट डे फर्स्ट शो सर्विस की घोषणा की जो 2020 के मध्य में शुरू होगी   |  इसके शुरू होने के बाद लैंडलाइन से किसी भी मोबाइल कॉलिंग मुफ्त होगी  | सिर्फ 500 रुपए में फिक्स्ड लाइन से दुनिया में कहीं भी मुफ्त अनलिमिटेड कॉल कर सकेंगे |  मुकेश अंबानी ने बताया कि जियो गीगा फायबर के प्लान 700 रुपए से 10,000 रुपए तक के बीच होंगे  | जियो ने इस दौरान अपने पहले MR Headsets का डेमो भी दिखाया जो बहुत जल्द ही बाजार में उपलब्ध होंगे  |  इस हेडसेट की मदद से यूजर एक साथ तीन चीजों का वर्चुअल रियलिटी के माध्मय से मजा ले सकेगा   |  इसमें शॉपिंग, एजुकेशन और एंटरटेनमेंट का भरपूर मजा मिलेगा  |   

Dakhal News

Dakhal News 13 August 2019


bijalee

आउट सोर्स  बिजली कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन कांग्रेस सरकार कर रही है वादा खिलाफी    मध्यप्रदेश में कांग्रेस सरकार की वादा खिलाफी से नाराज  बिजली वितरण करने वाली सभी कंपनियों के आउट सोर्स कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर उसे उसका वादा याद दिलवाया |     मध्यप्रदेश में बिजली वितरण करने वाली सभी कंपनियों के आउट सोर्स पर लगे कर्मचारी रविवार सुबह भोपाल के चिनार पार्क में जमा हुए और प्रदर्शन किया    | कर्मचारियों का कहना है कि उन्हें नौकरी से निकाला जा रहा है | कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव के दौरान अपने घोषणा-पत्र में वचन दिया था कि उन्हें नियमित किया जाएगा  | वे यहां मुख्यमंत्री कमलनाथ को उनका वादा याद दिलाने के लिए आए हैं  | कर्मचारियों का कहना है कि उनकी बस एक ही मांग है कि उन्हें नियमित किया जाए | आउट सोर्स पर रखे गए लोगों का कहना है कि हमें कहा जा रहा है कि आप नई नौकरी ढूंढ लो  |       

Patrakar amitabh upadhyay

amitabh upadhyay 11 August 2019


murder

  मृतक  पर दर्ज है यूपी में हत्या का मामला    एक युवक की उसके घर मे  हत्या कर दी गई  |  हत्या के बाद आरोपी दरवाजे पर ताला लगाकर फरार हो गये | सूचना मिलने के बाद  मौके पर पहुँची  ने हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू  कर दी है  |बताया जा रहा है की मृतक पर यूपी में  हत्या का मामला दर्ज है |     छतरपुर के नौगांव मे एक युवक की उसके घर मे  हत्या करने  बाद आरोपी दरवाजे पर ताला लगाकर फरार हो गये  | घटना गल्ला मंडी रोड़ पर स्थित एक मकान की है | सूचना मिलने के बाद फोरेंसिक टीम के साथ  मौके पर पहुँची पुलिस ने घर का ताला तोडा तो पलंग पर यूपी के खमा के रहने वाले वीरेन्द्र का शव रक्तरंजित हालत मे पडा़ मिला    पुलिस ने जब शव की पड़ताल की तो मृतक के सिर पर चोट के निशान थे  | पुलिस ने मौके पर पंचनामा बनाकर  हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी है |  वही मृतक  के भाई का कहना है |चार दिन पहले भाई सामान लेकर गांव से आया था | उसके बाद से  उसका फोन नहीं लग रहा था | आज जब उसने देखा तो उसका भाई मृत पड़ा था |आशंका जताई जा रही है किसी रंजिश के चलते उसकी हत्या की गई है |  

Dakhal News

Dakhal News 11 August 2019


khatiya

शव के लिए पुलिस ने ये मिसाल पेश की  बैरसिया के एक गांव में महिला ने खुदकशी कर ली सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। लेकिन शव को अस्पताल तक पहुंचाना बड़ी समस्या थी |  बरसात के कारण करीब दो किलोमीटर तक  कीचड़ था, किसी भी वाहन का वहां पहुंचना मुश्किल था | अंतत. पुलिस ने परिजनों की मदद से शव को खटिया पर रखा | इसके बाद पुलिस खुद कंधा देकर शव को मुख्य मार्ग तक लाई | पुलिस की संवेदनशीलता देख मृतक के परिजनों के अलावा पूरा गांव अभिभूत हो गया। ग्राम ढेकपुर स्थित बिजौरी टपरा निवासी कलीबाई ने सुबह करीब 10 बजे फांसी लगा ली थी। सूचना मिलने पर थाने के एएसआई गंगाराम शाक्य, मुन्नाीलाल ओझा, श्रीधर चंदेरिया और सिपाही मांगीलाल किसी तरह ढेकपुर टपरा पहुंच गए | वहां शव को फंदे से उतारा गया | लेकिन ढेकपुर टपरा से मुख्य मार्ग तक शव को लाना चुनौती भरा था | पूरे मार्ग में कीचड़ होने से किसी भी वाहन का वहां पहुंचना मुश्किल था | लिहाजा तय किया गया कि शव को खटिया पर रखकर मुख्यमार्ग तक ले जाया जाए | परिजनों की मदद से शव को खटिया पर रखा गया | इसके बाद पुलिस खटिया के कंधे का सहारा देकर मुख्य मार्ग तक लाई  इसके बाद वाहन से शव पोस्टमार्टम के लिए बैरसिया अस्पताल पहुंचाया गया  पुलिस मर्ग कायम कर मामले की जांच कर रही है |

Dakhal News

Dakhal News 26 June 2019


baba samadhi

भक्तों ने लगाए ढोंगी बाबा के नारे एक बाबा ने समाधी लेने का ऐलान कर दिया और समाधी लेने के लिए बैठ गए  | लेकिन जब तय समय पर बाबा समाधी नहीं ले पाए तो उनके भक्तों में ही काना फूसी शुरू हो गई | समाधी स्थल वाले  घर के बाहर मजमा लग गया और लोगों ने बाबा के खिलाफ बोलना शुरू कर दिया | पुलिस ने जैसे जैसे स्थिति को काबू में रखा | बालाघाट जिला मुख्यालय से 25 किमी दूर हट्टा डूंडासिवनी में कबीर पंत के संत सुबोध दास उर्फ मंगल दास समाधी लेने के लिए बैठ गए | उनका कहना है कि वे मानव कल्याण के लिए समाधी ले रहे हैं  | यह जानकारी जैसे ही उनके भक्तों को लगी तो घर के बाहर भीड़ जमा हो गई | संत के प्राण त्यागने में हो रही देरी से धीरे-धीरे भक्त नाराज होने लगे | एसडीओपी नितेश भार्गव ने बताया कि उन्हें पता है कि संत अपने प्राण त्याग रहे हैं और उन्होंने बताया कि बाबा से बातचीत में बाबा ने उन्हें बताया था कि उनके गुरु सपने में आए तो उन्होंने कहा था कि 10.15 से उनके प्राण जाने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी  | इसके लिए उन्होंने भक्त के घर पर ध्यान लगाया है | इस दौरान भक्तों की आस्था बदल गई  | उन्हें लगा कि समाधी लेने की बात के बाद बाबा  कहीं भाग न जाए, इसलिए घर पीछे के दरवाजे पर लोगों ने डेरा  डाल दिया | अब पुलिस भक्तों को समझाने का प्रयास कर रही हैं  वहीँ लोग ढोंगी बाबा के नारे लगाते रहे |

Dakhal News

Dakhal News 26 June 2019


horror

हॉरर सीरियल देख बच्ची ने लगाई फांसी  मोबाइल टीवी पर हॉरर सीरियल या मूवी देखना  बच्चों के लिए घातक होता जा रहा है | हॉरर सीरियल देखने के बाद एक 12 साल की  बच्ची के फांसी लगाकर जान देने की दर्दनाक घटना सामने आयी है | हॉरर सीरियल देखने के बाद फांसी लगाकर जान देने की घटना से क्षेत्र के लोगों में सनसनी फ़ैल गई | घटना  छतरपुर के ईशानगर थाने के  पनौठा गांव की है जहाँ  एक बारह साल की बच्ची ने हॉरर सीरियल देखने के बाद  फांसी लगाकर जान दे दी | घटना उस समय हुई ,जब 12 साल की  अंजली के माता पिता बाजार गये थे | घर पर अंजली और उसकी एक छोटी बहन  थी | मोबाइल टीवी पर हॉरर  सीरियल देखने के बाद अंजलि  तौलिये का फांसी का फंदा बनाकर झूल गई | बहन  को फांसी पर झूलते देख  छोटी बहन  बाहर आई और पडोस के लोगो को  बताया लेकिन तब तक अंजली की मौत हो चुकी थी |  मृतिका के पितापुलिस ने अंजली का पोस्टमार्टम कराकर परिजनो को शव सौंप  दिया है | घटना के बाद से ही परिवार सदमे में है | लेकिन यह खबर सीख देने वाली है कि मोबाइल पर सीरियल या फिर गेम  देखकर बच्चे किस हद तक  विचलित हो सकते है | इससे पहले भी कई ऐसी घटनाएं  हो चुकी हैं | जिसमे मोबाइल  गेम के चलते कई बच्चों ने अपनी जान गवाई है | ऐसे में परिजाओं को बच्चों के प्रति सजग  रहने की जरूरत है |

Dakhal News

Dakhal News 26 June 2019


प्री मानसून गतिविधियां

  देश के कई राज्‍यों एवं शहरों में अगले तीन से चार दिन तक मौसम बदलने की संभावना है। इस दौरान कई स्‍थानों पर तेज आंधी के साथ बारिश और ओले गिरने की आशंका है। बारिश का इंतजार करने वालों के लिए यह सप्‍ताह राहतभरा होने की उम्मीद है। मौसम विभाग ने चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि रविवार को उत्‍तराखंड के कुछ क्षेत्रों में आसमान से बिजली तक गिर सकती है। चेतावनी दी गई है कि कुछ स्थानों पर बारिश के साथ ओले भी गिर सकते हैं। कुमाऊं के पिथौरागढ़ मौसम खराब होने के संकेत मिले हैं। जानकारी सामने आई है कि रविवार से उत्तराखण्ड में बारिश होगी। रविवार को यहां दिन के तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है। मिली जानकारी के अनुसार हल्द्वानी-पंतनगर में शुक्रवार का तापमान 39 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया। झारखंड और ओडिशा में बारिश और आंधी के साथ तेज हवाएँ चलेंगी। झारसुगुड़ा, कालाहांडी, कंधमाल, केंद्रपाड़ा, केंदुझार, खोरधा, कोरापुट, नबरंगपुर, नयागढ़, पुरी, रायगढ़, संबलपुर, सुवर्णपुर, सुबरनपुर, सुबरनपुर आदि क्षेत्र प्रभावित हो सकते हैं। राज्य के अल्मोड़ा, चम्पावत, बागेश्वर, नैनीताल, मुक्तेश्वर में हल्की से मध्यम बारिश गरज-चमक के साथ हो सकती है। मौसम बदलने के दौरान करीब 50-60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है। दूसरी ओर उत्तरप्रदेश के कुछ क्षेत्रों में भी बारिश होने की संभावना है। पूर्वानुमान अगले दो-तीन दिन पूर्वी उप्र में आंधी के साथ बारिश की संभावना है। राजधानी लखनऊ में रविवार सुबह हल्की बारिश हुई। मध्‍यप्रदेश और छत्‍तीसगढ़ में अगले 4 दिनों तक बारिश की संभावना है। रीवा, सीधी, शहडोल, नौपुरा, जगदलपुर, दुर्ग, रायपुर, कोरिया आदि स्‍थानों पर अगले तीन से चार दिनों के दौरान अलग-अलग समय पर तेज बारिश और आंधी आ सकती है। हरदोई, सीतापुर, लखनऊ, बाराबंकी जिलों और आसपास के क्षेत्रों में अगले तीन घंटों के दौरान ओलावृष्टि और हल्की बारिश के साथ ओलावृष्टि और आंधी के साथ बारिश होने की संभावना है। बारिश और बादलों की मौजूदगी से क्षेत्र का तापमान कम हो गया है। इससे लोगों ने राहत महसूस की है। विभिन्न क्षेत्रों में बारिश के हालात बनने के पहले, अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस से 44 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। आगरा, फीरोजाबाद, मैनपुरी, एटा और कासगंज में अधिकतम पारा 45 और न्यूनतम 29 डिग्री के आसपास रहा। तो दूसरी ओर हल्द्वानी में 37.8, नैनीताल में 27.7, मुक्तेश्वर में 29.3 डिग्री सेल्सियस रहा।

Dakhal News

Dakhal News 2 June 2019


monsoon cg

  नौतपा के अंतिम दिन छत्‍तीसगढ़ में भी मौसम ने करवट ली। राज्‍य के कुछ हिस्‍सों में बारिश के साथ प्री मानसून गतिविधियां आरंभ हो गई। बिलासपुर में तेज बारिश से भीषण गर्मी से परेशान लोगों को काफी हद तक राहत मिली।बिलासपुर के गोलबाजार मेन रोड मे शाम 4.45 बजे बारिश आरंभ हुई। करीबन 45 मिनट तक झमाझम पानी गिरा। उल्‍लेखनीय है कि मई में छत्तीसगढ़ की धरती खूब तपी। आसमान से सूरज ने खूब आग बरसाई। इस साल अधिकतम तापमान 46 डिग्री के आंकड़ा भी पार कर गया। लालपुर मौसम विज्ञान केंद्र के आंकड़े भीषण गर्मी की गवाही दे रहे हैं। 'नईदुनिया" के पास मौजूद आंकड़े के मुताबिक मई के 31 दिनों में रायपुर का अधिकतम तापमान सिर्फ दो बार 40 के नीचे पहुंचा, वह भी 39.5 डिग्री से अधिक रहा। औसत तापमान 43.2 डिग्री रहा। राजनांदगांव 44.2 डिग्री औसत तापमान के साथ सबसे गर्म रहा। मौसम विभाग के आंकड़े बताते हैं कि बीते वर्ष की तुलना में इस साल रायपुर के औसत तापमान में 0.5 डिग्री की वृद्धि हुई है। पूर्वानुमान तो यह भी लगाया जा रहा है कि अच्छी गर्मी से इस साल अच्छी बारिश होगी। बीते वर्ष 1100 मिमी बारिश हुई थी। लगातार बढ़ती गर्मी से मौसम विभाग, कृषि मौसम विभाग के वैज्ञानिक भी हैरान हैं। उनका मानना है कि अगर इसी दर से औसत तापमान में वृद्धि होती गई तो यह इंसानों, जीव-जंतुओं के साथ किसानी के लिए नुकसानदायक होगा। अंधाधुंध पेड़ों की कटाई (हालांकि रायपुर में ग्रीनरी बढ़ी है।), सीमेंट की सड़कों का निर्माण, फुटपॉथ में भी कांक्रीटीकरण, बेलगाम निजी गाड़ियां, पब्लिक ट्रांसपोर्ट का कम इस्तेमाल आदि तापमान बढ़ने के प्रमुख कारण हैं। कचरा जलाने, पटाखे चलाने का भी इस पर असर पड़ा है। शहरों का मई में औसत तापमान रायपुर- 43.2, बिलासपुर- 43.5, पेंड्रा- 40.1, अंबिकापुर- 40.0, जगदलपुर- 38.9, दुर्ग- 43.4, राजनांदगांव- 44.2। गौर करने वाली बात यह है कि सिर्फ जगदलपुर ही एक ऐसा शहर है, जहां औसत तापमान 40 के नीचे रहा। शुक्रवार को रायपुर, बिलासपुर, जगदलपुर, दुर्ग जिले समेत कई क्षेत्रों में हल्की बारिश हुई थी। शनिवार को भी स्थिति ऐसी ही रही। कोरिया, मुंगेली, कोरबा, रायगढ़, कवर्धा, बेमेतरा, राजनांदगांव, दुर्ग, रायपुर, बलौदाबाजार, महासमुंद, बालोद,गरियाबंद, धमतरी, कांकेर, कोंडागांव, दंतेवाड़ा, बस्तर के कुछ क्षेत्र में 40 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से हवा चली।मौसम विभाग ने आज प्रदेश के कुछ स्थानों पर तेज हवा चलने का पूर्वानुमान है, हल्की बारिश भी हो सकती है। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानी एचपी चंद्रा ने कहा छत्तीसगढ़ में मानसून 15 के बाद ही आएगा। इस साल औसत गर्मी बीते वर्षों की तुलना में अधिक रही। इस साल पारा तकरीबन 0.5 डिग्री अधिक रहा। जून के 10 दिन तक तो पारा 42-43 के बीच ही रहेगा।  

Dakhal News

Dakhal News 2 June 2019


bus damoh

खराब सड़क बनी हादसे की वजह एमपी के दमोह में उस वक्त एक बड़ा हादसा टल गया जब अचानक एक चलती बस से टायर निकल गए | जब यह हादसा हुआ बस  रफ़्तार में नहीं थी |  लेकिन गनीमत यह रही की इस घटना में मुसाफिरों को ज्यादा चोटें  नहीं लगीं | दमोह में  एक बड़ा बस हादसा उस वक्त टल गया, जब तेजगढ़ से तेंदूखेड़ा की तरफ जा रही यात्री बस के दो पहिए खुल गए |  गनीमत रही कि इस हादसे में किसी को ज्यादा गंभीर चोट नहीं आई   |  हादसा पीडराई पाजी के पास हुआ, जब अचानक तेज रफ्तार बस की एक तरफ के दोनों टायर खुल गए |  जिस वक्त ये हादसा हुआ, उस वक्त बस की रफ्तार ज्यादा नहीं थी |  वरना बड़ी जनहानि हो सकती थी |  हादसे के बाद लोग बदहवास नजर आए और बस से दूर भागने लगे |  कुछ लोगों को इस हादसे में मामूली चोट आई है  | बस में सवार यात्रियों ने बताया कि इस मार्ग पर सड़क की हालत काफी खराब है  | जगह-जगह गड्ढे हैं, जो इस तरह के हादसों की वजह बन रहे हैं | इस हादसे में घायल हुए लोगों को पास के स्थानीय अस्पताल में प्राथमिक उपचार के लिए ले जाया गया|    

Dakhal News

Dakhal News 1 June 2019


modi

मोदी के दोबारा  प्रधानमंत्री बनने की खुशी इस कदर है की  बीजेपी कार्यकर्ताओं ने बैरागढ़ के चंचल चौराहे पर मोदी मंत्रिमंडल का शपथ समारोह एलईडी स्क्रीन पर लाइव दिखया  इस दौरान बड़ी संख्या में मौजूद लोगों ने शपथ समारोह लाइव देखा  | बैरागढ़ स्थित चंचल चौराहे में मोदी मंत्रिमंडल  के शपथ समारोह को बीजेपी कार्यकर्ताओं ने एलईडी की बड़ी  स्क्रीन में लाइव दिखाया |  खुशी का आलम यह था की जब मोदी प्रधानमंत्री पद की  शपथ ले रहे थे तब कार्यकर्ताओं ने जोरदार आतिशबाजी की साथ ही मिठाइयां बांटी  मोदी मोदी के नारे भी लगाए गए  प्रधानमंत्री  मोदी का  शपथ समारोह बड़ी स्क्रीन पर  लाइव देखने के लिए  लोगों में काफी उत्साह देखने को मिला इस दौरान बीजेपी कार्यकर्ता भी बड़े जोश में दिखाई दिए | आम जान को कोई परेशानी का सामना न करना पड़े इसके लिए बीजेपी मंडल ने पूरी व्यवस्था कर राखी थी | 

Dakhal News

Dakhal News 1 June 2019


samuhik vivha

  40 जोड़े बंधे परिणय सूत्र में भोपाल के आनंदनगर कोकता में लेबर यूनियन सेवा समिति ने  निःशुल्क  सामूहिक विवाह सम्मलेन का आयोजन किया  | इस सम्मलेन में  40  जोड़ों को पूरे विधिविधान के साथ परिणय सूत्र में बांधा गया | विवाह सम्मलेन में वर वधू  के साथ  बड़ी संख्या में उनके परिजन भी मौजूद रहे | लेबर यूनियन समिति के तत्वाधान में निःशुल्क सामूहिक विवाह सम्मलेन का आयोजन किया गया    आयोजन में 40  जोड़ों को विधि पूर्वक परिणय सूत्र में बंधा गया | आयोजनकर्ता समितियों ने गृहस्थी का सामान उपहार स्वरूप प्रदान किया | गर्मी होने के बावजूद आयोजनों में बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे  | यूनियन के अध्यक्ष अमरीश राय  ने बताया की यह सातवां सामूहिक विवाह सम्मलेन उनके द्वारा कराया गया है | इससे पहले भी उन्होंने सामूहिक विवाह के कार्यक्रम आयोजित किये है | विवाह सम्मलेन आयोजन का मुख्या उद्देश्य  उद्देश्य गरीब, जरूरतमंद और बेसहारा परिवारों की बेटे , बेटियों की शादी के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना है | विवाह सम्मलेन में आये संत और गरुओं ने नव युगल जोड़ों को आशीर्वाद दिया और उनके भविष्य के लिए मंगल कामना की विवाह  के बंधन में बधने आये जोड़ों में शादी को लेकर काफी उत्साह देखने को मिला |

Dakhal News

Dakhal News 1 June 2019


kamlnath

  मुख्यमंत्री  कमल नाथ ने इंदौर की कक्षा छठवीं की छात्रा ईवा शर्मा की गुहार पर इंदौर कलेक्टर को बच्चों के लिए बेडमिंटन प्रशिक्षण की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री के निर्देश पर कलेक्टर ने तत्काल वैकल्पिक व्यवस्था करते हुए एसजीएसआईटीएस कॉलेज के बेडमिंटन हॉल को बच्चों के प्रशिक्षण के लिए उपलब्ध करवाया। इंदौर की कक्षा छठवीं की छात्रा कु. ईवा शर्मा ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखा था कि चुनावी प्रक्रिया के लिए जिला प्रशासन ने नेहरू स्टेडियम को अपने आधिपत्य में ले लिया है। इसके कारण, बच्चों का बेडमिंटन प्रशिक्षण प्रभावित हो रहा है। उसने पत्र में यह भी लिखा कि चुनाव प्रक्रिया के बाद स्टेडियम का वुडन कोर्ट भी खराब हो जाता है। मुख्यमंत्री ने ईवा को लिखे पत्र में कहा कि निश्चित तौर पर आपकी व्यथा ठीक है। इंदौर के नेहरू स्टेडियम में ही चुनावी प्रक्रिया कई वर्षों से संपन्न करवाई जाती है। आगामी लोकसभा चुनाव संपन्न होना है। उसके लिये चुनावी प्रक्रिया के कार्य भी इस साल नेहरू स्टेडियम में संपन्न होना है। चुनाव लोकतंत्र का महापर्व होता है और यह हम सभी की भागीदारी से संपन्न होता है। मुख्यमंत्री ने ईवा को लिखा कि हालाँकि आपका पत्र देश के प्रधानमंत्री को संबोधित था लेकिन मैंने पत्र देखकर यह माना कि मुख्यमंत्री के रूप में मुझे आपकी समस्या का निदान करना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि नेहरू स्टेडियम का बेडमिंटन हॉल तो अभी लोक सभा निर्वाचन प्रक्रिया के कार्य प्रारंभ होने से आपको उपलब्ध नहीं करवा पा रहा हूँ लेकिन चुनावी प्रक्रिया समाप्त होने तक वैकल्पिक व्यवस्था की है। इंदौर के जिलाधीश को निर्देश दिए हैं कि तत्काल इस समस्या का हल निकालें। मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद बेडमिंटन खिलाड़ियों की इंदौर के एसजीएसआईटीएस कॉलेज में शाम 3 से 5 बजे तक बेडमिंटन हॉल की व्यवस्था प्रशिक्षण के लिए कर दी गई है। मुख्यमंत्री ने संबंधित अधिकारियों को यह निर्देश भी दिए हैं कि चुनाव कार्य के दौरान नेहरू स्टेडियम के बेडमिंटन हॉल का वुडन कोर्ट खराब न हो, इसका भी पूरा ध्यान रखा जाए।

Dakhal News

Dakhal News 3 March 2019


jaybardhan

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री जयवर्द्धन सिंह ने राजगढ़ जिले की नरसिंहगढ़ तहसील में जय किसान फसल ऋण माफी योजना में पात्र किसानों को 32 करोड़ एक लाख 33 हजार 929 रूपये के ऋण माफी प्रमाण-पत्र तथा सम्मान ताम्र-पत्र प्रदान किये। उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक पात्र किसानों को योजना का लाभ दिलाना प्रदेश सरकार की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि किसानों को खेती के लिये पर्याप्त बिजली एवं सिंचाई के लिये उपयुक्त संसाधन उपलब्ध कराये जायेंगे। मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह ने कहा कि प्रदेश में खेती के लिए बिजली, पानी, बीज और खाद की बेहतर व्यवस्थाएँ ही किसानों को समृद्ध और खुशहाल बनाएँगी। उन्होंने कहा कि नगर परिषद, तलेन को 2 करोड़ रूपये का विशेष पैकेज उपलब्ध करवाया गया है, जिससे सभी लंबित कार्य शीघ्र पूर्ण किये जायेंगे। जिले में प्रत्येक विकासखंड की पाँच बड़ी पंचायतों में गौ-शालाओं का निर्माण कराया जायेगा, जिससे गौ-वंश की अच्छी देखभाल हो सके। श्री जयवर्द्धन सिंह ने कहा कि नरसिंहगढ़ तहसील को समृध्द बनाया जायेगा। यहाँ सभी मूलभूत सुविधाएँ उपलब्ध करायी जायेंगी। कार्यक्रम में पूर्व विधायक श्री गिरीश भंडारी उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 3 March 2019


anandi ben

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।    

Dakhal News

Dakhal News 3 March 2019


मुख्यमंत्री छिन्दवाड़ा में राष्ट्र ध्वज फहरायेंगे

मुख्यमंत्री  कमल नाथ गणतंत्र दिवस 26 जनवरी को छिन्दवाड़ा जिला मुख्यालय में राष्ट्र ध्वज फहरायेंगे और आमजन को संबोधित करेंगे। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ परेड की सलामी भी लेंगे। राज्य शासन ने प्रदेश के विभिन्न जिला मुख्यालयों पर राष्ट्र ध्वज फहराने और जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह के लिये मंत्रीगण को जिले निर्धारित कर आवंटित किये हैं। मध्यप्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष श्री नर्मदा प्रसाद प्रजापति नरसिंहपुर में और मध्यप्रदेश विधानसभा की उपाध्यक्ष सुश्री हिना लिखिराम काँवरे बालाघाट में ध्वजारोहण करेंगी। सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा आज जारी आदेश के अनुसार मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ खरगोन जिला मुख्यालय पर, श्री सज्जन सिंह वर्मा देवास, श्री हुकुम सिंह कराड़ा शाजापुर, डॉ. गोविन्द सिंह भिण्ड, श्री बाला बच्चन बड़वानी, श्री आरिफ अकील सीहोर, श्री बृजेन्द्र सिंह राठौर टीकमगढ़, श्री प्रदीप जायसवाल सिवनी, श्री लाखन सिंह यादव मुरैना, श्री तुलसीराम सिलावट खंडवा, श्री गोविन्द सिंह राजपूत सागर, श्रीमती इमरती देवी ग्वालियर, श्री ओमकार सिंह मरकाम डिण्डोरी, डॉ. प्रभुराम चौधरी रायसेन, श्री प्रियव्रत सिंह राजगढ़, श्री सुखदेव पांसे बैतूल, श्री उमंग सिंघार धार, श्री हर्ष यादव विदिशा, श्री जयवर्धन सिंह गुना, श्री जीतू पटवारी इंदौर, श्री कमलेश्वर पटेल सीधी, श्री लखन घनघोरिया जबलपुर, श्री महेन्द्र सिंह सिसोदिया अशोकनगर, श्री पी.सी. शर्मा होशंगाबाद, श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर शिवपुरी, श्री सचिन सुभाष यादव रतलाम, श्री सुरेन्द्र सिंह हनी बघेल झाबुआ और श्री तरूण भनोत मंडला जिला मुख्यालय पर ध्वजारोहण करेंगे। जिन 20 जिला मुख्यालय पर जिला कलेक्टर ध्वजारोहण करेंगे उनमें श्योपुर, दतिया, आगर-मालवा, मंदसौर, नीमच, अलीराजपुर, बुरहानपुर, हरदा, दमोह, पन्ना, छतरपुर, कटनी, रीवा, शहडोल, अनूपपुर, उज्जैन, उमरिया, सिंगरौली, सतना और निवाड़ी शामिल हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 18 January 2019


kamlnath

    मुख्यमंत्री  कमल नाथ से सिंबायोसिस स्किल यूनिवर्सिटी की प्रोचांसलर सुश्री स्वाति मजूमदार ने आज मंत्रालय में सौजन्य भेंट की। मुख्यमंत्री श्री नाथ को सुश्री मजूमदार ने स्मृति चिन्ह और वर्ष 2019 का कैलेंडर भेंट किया।

Dakhal News

Dakhal News 18 January 2019


ias

मुख्यमंत्री से मिले प्रोबेशनर अधिकारी   मुख्यमंत्री  कमल नाथ से भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रदेश कॉडर के वर्ष 2017 के प्रोबेशनर अधिकारियों ने आज मंत्रालय में सौजन्य भेंट की। इस अवसर पर महानिदेशक प्रशासन अकादमी श्री ए. पी. श्रीवास्तव भी मौजूद थे।  

Dakhal News

Dakhal News 18 January 2019


bhupesh baghel

  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल राजस्व और खनिज के साथ ऊर्जा विभाग की भी कमान संभाल सकते हैं। वहीं, गृह विभाग ताम्रध्वज साहू और वित्त की कमान टीएस सिंहदेव को मिल सकता है। राज्य की नई सरकार के मंत्रियों के बीच विभाग बंटवारे को लेकर तैयार प्रस्ताव के अनुसार पीडब्ल्यूडी रविंद्र चौबे को दिया जा सकता है। विभाग फाइनल करने के लिए मुख्यमंत्री बघेल और कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया ने हर एक मंत्री से विभाग को लेकर उनकी पसंद पूछी है। उच्च पदस्थ प्रशासनिक सूत्रों के अनुसार मंत्रियों की पसंद पूछने के साथ ही उनको दिए जाने वाले विभाग की एक संभावित सूची भी तैयार की गई थी।  भरोसेमंद सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस सरकार में भी उच्च और स्कूल शिक्षा अलग- अलग मंत्रियों देने का प्रस्ताव है। उच्च शिक्षा मंत्री के पास ही तकनीकी शिक्षा की भी जिम्मेदारी रहेगी। बस्तर से एकमात्र मंत्री बनाए गए कवासी लखमा को वन के साथ आदिम जाति कल्याण विभाग दिया जा सकता है। वहीं, सबसे युवा मंत्री उमेश पटेल के लिए खेल एवं युवा कल्याण तथा एक मात्र महिला मंत्री अनिला भेंड़िया को महिला, बाल विकास एवं समाज कल्याण विभाग दिया जा सकता है। विभाग बंटवारे का प्रस्ताव मुख्यमंत्री भूपेश बघेल - राजस्व, खनिज, ऊर्जा,  टीएस सिंहदेव - वित्त, स्वास्थ्य ,ताम्रध्वज साहू - गृह, पंचायत एवं ग्रामीण विकास,रविंद्र चौबे - पीडब्ल्यूडी, संसदीय कार्य- विधि ,मो. अकबर - उच्च शिक्षा, अल्प संख्यक विकास,डॉ. प्रेम साय टेकाम - कृषि, जल संसाधन,कवासी लखमा - वन आदिमजाति कल्याण,डॉ. शिवकुमार डहरिया - खाद्य नागरिक आपूर्ति ,उमेश पटेल ,स्कूल - शिक्षा, खेल एवं युवा कल्याण ,अनिला भेड़िया - महिला एंव बाल विकास  ,गुस्र् रूद्र कुमार - संस्कृति पर्यटन,जयसिंह अग्रवाल - श्रम।   

Dakhal News

Dakhal News 26 December 2018


इस बार दिवाली में सिर्फ दो घंटे फोड़ पाएंगे पटाखे

देशभर में पटाखों के उत्पादन, उनको बेचने और स्टॉक पर पाबंदी की मांग को लेकर दाखिल याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है। सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा है कि दिवाली पर लोग रात 8-10 बजे तक ही पटाखे चला सकेंगे। यह आदेश सभी धर्मों के त्यौहारों पर लागू होगा। सर्वोच्च न्यायालय ने यह भी कहा है कि जो पटाखें चलाए जाएं वो कम धुएं और आवाज वाले हों ताकि प्रदूषण ना फैले। सर्वोच्च न्यायालय ने पटाखों की बिक्री पर से भी कुछ शर्तों के साथ रोक हटाई है। इसके तहत पटाखों की ऑनलाइन बिक्री पर रोक लगा दी है। इससे पहले जस्टिस एके सीकरी और जस्टिस अशोक भूषण की पीठ ने कहा, हालांकि यह मामला सोमवार की सूची में शामिल था, लेकिन इस पर निर्णय 23 अक्टूबर को सुनाया जाएगा। शीर्ष कोर्ट ने 28 अगस्त को फैसला सुरक्षित रख लिया था। बता दें कि शीर्ष कोर्ट ने 2017 में दिल्ली-एनसीआर में दीपावली पर पटाखों की बिक्री पर पाबंदी लगा दी थी। दरअसल, वायु प्रदूषण खतरनाक स्तर पर पहुंचने के मद्देनजर सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर कर देशभर में पटाखों पर रोक लगाने की मांग की गई थी। पीठ ने इस मुद्दे पर याचिकाकर्ता, पटाखा निर्माता केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की दलीलों को सुनने के बाद कहा था कि पटाखों से स्वास्थ्य पर पड़ने वाले दुष्प्रभाव और इसके व्यापार के बीच एक संतुलन रखना होगा। पीठ का कहना था कि जहां पटाखा निर्माताओं को अपने जीविकोपार्जन का मूल अधिकार प्राप्त है वहीं 130 करोड़ लोगों को भी अच्छे स्वास्थ्य का मूल अधिकार प्राप्त है। सुनवाई के दौरान पटाखा निर्माताओं ने दलील दी थी कि दीपावली के बाद बढ़ने वाले वायु प्रदूषण के लिए सिर्फ पटाखे जिम्मेदार नहीं हैं और सिर्फ इस वजह से पूरे उद्योग को बंद करने का आदेश देना न्यायसंगत नहीं होगा। सुनवाई के दौरान पीठ ने बच्चों में श्वसन संबंधी दिक्कतों के बढ़ने पर चिंता जताते हुए पटाखों पर पूरी तरह से या फिर आंशिक प्रतिबंध लगाने की बात कही थी।  

Dakhal News

Dakhal News 23 October 2018


gajiyabad

    उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले का प्रदूषण शुक्रवार को खतरनाक स्तर पर पहुंच गया। दिनभर में प्रदूषण की मात्रा कई बार ऊपर-नीचे हुई। दिन में प्रदूषण बढ़ा तो शाम को कम हुआ और रात को फिर प्रदूषण ऐसे स्तर पर जा पहुंचा कि गाजियाबाद देश के सर्वाधिक प्रदूषित शहरों में तीसरे स्थान पर जा पहुंचा। रात को जिला देश के तीन सबसे प्रदूषित शहरों में शामिल हो गया। जिले का प्रदूषण स्तर रावण पुतला दहन होने के बाद दोगुना हो गया। जिले में शुक्रवार को पीएम-10, 307 प्रति घन मीटर दर्ज किया गया। एयर क्वालिटी इंडेक्स भी शुक्रवार को 314 प्रति घन मीटर दर्ज की गई। देश के सर्वाधिक प्रदूषित पांच शहरों की वायु गुणवत्ता (एयर क्वालिटी इंडेक्स) - भिवाड़ी - 391 - गुरुग्राम - 318 - गाजियाबाद - 314 - नोएडा - 292 - दिल्ली - 280 --- प्रदूषण का स्तर रोजाना बढ़ रहा है। अभी आने वाले दिनों में यह और बढ़ेगा। धूल के मोटे कणों के बढ़ने से समस्या बढ़ रही है। शुक्रवार को भी जिले का वायु प्रदूषण अधिक रहा। -अशोक तिवारी, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी।

Dakhal News

Dakhal News 23 October 2018


prshant kishor

  पटना में  जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने जदयू से जुड़े छात्रों-युवाओं को चुनाव जीतने का मंत्र दिया। कहा कि जनता के बीच जाइए, उनकी सेवा कीजिए। पांच साल बाद टटोलिएगा कि आप कहां खड़े हैं। खुद पर भरोसा हो तो चुनाव लड़िए, जरूर कामयाबी मिलेगी। किशोर युवा और छात्र जदयू के चुनिन्दा कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री निवास पर बैठक आयोजित थी। इसमें करीब तीन सौ छात्र-युवा शामिल थे। उन्होंने अपने बारे में साफ किया कि मैं राज्यसभा नहीं जा रहा हूं। लोकसभा चुनाव भी नहीं लड़ूंगा। जनता की सेवा के इरादे से जदयू में शामिल हुआ हूं। मेरा कोई और लक्ष्य नहीं है। किशोर ने छात्रों-युवाओं को टास्क दिया कि वे हर जिले में तीन सौ सक्रिय कार्यकर्ता तैयार करें। इनमें दो सौ युवा और सौ छात्र होंगे। प्रदेश से लेकर जिला स्तर तक युवाओं-छात्रों की समन्वय समिति बनाएं। इसके संयोजक युवा और अध्यक्ष छात्र होंगे। फिर जदयू की मूल कमेटी से मिलकर जन सेवा के कार्यक्रम तय करें। सब मिलकर जनता के बीच जाएं। उन्हें जदयू की नीतियों और सरकार की उपलब्धियों से अवगत कराएं। किशोर का कहना था कि जदयू ही ऐसी पार्टी है, जिसमें मेहनत करने वाले कार्यकर्ताओं की हकमारी नहीं होती। उन्होंने कहा कि आप ऐसी पार्टी में हैं, जहां विरासत के आधार पर पद नहीं मिलता। यह किसी पिता की पार्टी नहीं है जिस पर सिर्फ वारिस का हक हो।  

Dakhal News

Dakhal News 23 October 2018


jan ashirvad yatra

एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सीहोर जिले के ग्राम नांदनेर में विशाल जनसभा में बताया कि राज्य सरकार ने बिजली बिल माफी योजना के अंतर्गत प्रदेश में गरीबों और अन्य जरूरतमंदों के 5 हजार 200 करोड़ रुपये के बकाया बिजली बिल माफ कर दिये हैं। इसके साथ ही इन सबको प्रति माह अधिकतम 200 रुपये के बिल पर बिजली उपलब्ध करवाई जा रही है। श्री चौहान ने ग्राम नांदनेर में 342 करोड़ रुपये से अधिक के विकास कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया। श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश को बीमारू राज्य की श्रेणी से निकालकर विकसित राज्य की श्रेणी में स्थापित करने में राज्य सरकार सफल रही है। अब प्रदेश को समृद्ध राज्य का दर्जा दिलाने के लिये सभी संभव प्रयास शुरू किये गये हैं। विभिन्न योजनाओं की जानकारी देते हुए उन्होंने लोगों का आव्हान किया कि अधिकारपूर्वक योजनाओं का लाभ प्राप्त करें। श्री चौहान ने बताया कि ग्राम नांदनेर तथा इसके आसपास के गाँवों में किसानों को लिफ्ट इरीगेशन के माध्यम से सिंचाई सुविधा उपलब्ध करवाई जायेगी। इस मौके पर जिले के प्रभारी, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती उर्मिला मरेठा, अन्य जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में ग्रामीण और किसान मौजूद थे। दिवंगत हेड कांस्टेबल को दी श्रृद्धांजलि मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज बुधनी-शाहगंज मार्ग पर पुलिस विभाग की बस के दुर्घटनाग्रस्त होने पर दु:ख व्यक्त किया। श्री चौहान ने बस में ड्यूटी पर आ रहे हेड कांस्टेबल श्री अशोक सिंह की मृत्यु हो जाने पर शोक-संवेदना व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्मा को श्रृद्धांजलि अर्पित की। मुख्यमंत्री ने कहा कि दु:ख की इस घड़ी में दिवंगत हेड कांस्टेबल श्री अशोक सिंह के परिवार के साथ राज्य सरकार खड़ी है। परिवार को सभी संभव सहायता उपलब्ध करवाई जायेगी।  

Dakhal News

Dakhal News 3 October 2018


nabard

एमपी की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने कहा है कि महिला स्व-सहायता समूह सामाजिक कुरीतियों और नशे जैसी बुराई को समाप्त करने में योगदान करें। श्रीमती पटेल मंगलवार को भोपाल में नाबार्ड द्वारा आयोजित स्व-सहायता समूहों, शिल्पकारों तथा कृषि उत्पादन संगठनों के उत्पादों की राष्ट्र-स्तरीय प्रदर्शनी- सह-बिक्री मेले के समापन समारोह को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि गांधी जयंती पर अगर हम सब गांधी जी के जीवन से जुड़ी छोटी-छोटी बातों जैसे नशा न करना तथा सत्य और अहिंसा के मार्ग पर चलने का संकल्प लें, तो यह गांधी जी को सच्ची श्रद्धांजलि होगी। श्रीमती पटेल ने कहा कि विश्व के सभी देश अपने राष्ट्र को पुरूष के रूप में मानते हैं। केवल हमारा देश है जो भारत माता के रूप में पूजा जाता है। इसलिए हमारे देश में महिलाओं का सदियों से सम्मान किया जाता रहा है। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी ने चरखा चला कर हमें आजादी दिलाई, हजारों स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों ने बिना भेदभाव किये देश के लिए प्राण न्यौछावर कर दिये और आज हम जातीवाद की समस्या से ही जूझ रहे हैं। श्रीमती पटेल ने कहा कि आज हमें सोचना पड़ेगा कि हमें देश के लिए क्या करना है। जब देश हित, देश प्रेम, गरीबों की सहायता, सभी को शिक्षा और सभी के विकास में सब मिलकर सहयोग करेंगे, तभी प्रधानमंत्री की सबका साथ-सबका विकास की सोच साकार रूप ले सकेगी। उन्होंने कहा कि हमारे पूर्वजों ने देश के अंतिम व्यक्ति तक लाभ पहुंचाने की सोच को बढ़ावा दिया। प्रधानमंत्री जी ने गांधी जी की मंशानुसार योजनाएं बनाकर अंतिम व्यक्ति तक उनका लाभ पहुँचाने का प्रयास किया है। मेले में कृषि उत्पादन आयुक्त, श्री पी सी मीणा, प्रमुख सचिव कृषि श्री राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव सहकारिता श्री के सी गुप्ता, मुख्य महाप्रबंधक भारतीय स्टेट बैंक श्री योगेंद्र सिंह, महाप्रबंधक यूनियन बैंक आफ इंडिया श्री जे एस चौहान, तथा अन्य विभागों के वरिष्ठ अधिकारी और प्रतिनिधि उपस्थित थे। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में महिलाएं, कृषक और गणमान्य नागरिक शामिल हुए।    

Dakhal News

Dakhal News 3 October 2018


nabard

एमपी की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने कहा है कि महिला स्व-सहायता समूह सामाजिक कुरीतियों और नशे जैसी बुराई को समाप्त करने में योगदान करें। श्रीमती पटेल मंगलवार को भोपाल में नाबार्ड द्वारा आयोजित स्व-सहायता समूहों, शिल्पकारों तथा कृषि उत्पादन संगठनों के उत्पादों की राष्ट्र-स्तरीय प्रदर्शनी- सह-बिक्री मेले के समापन समारोह को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि गांधी जयंती पर अगर हम सब गांधी जी के जीवन से जुड़ी छोटी-छोटी बातों जैसे नशा न करना तथा सत्य और अहिंसा के मार्ग पर चलने का संकल्प लें, तो यह गांधी जी को सच्ची श्रद्धांजलि होगी। श्रीमती पटेल ने कहा कि विश्व के सभी देश अपने राष्ट्र को पुरूष के रूप में मानते हैं। केवल हमारा देश है जो भारत माता के रूप में पूजा जाता है। इसलिए हमारे देश में महिलाओं का सदियों से सम्मान किया जाता रहा है। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी ने चरखा चला कर हमें आजादी दिलाई, हजारों स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों ने बिना भेदभाव किये देश के लिए प्राण न्यौछावर कर दिये और आज हम जातीवाद की समस्या से ही जूझ रहे हैं। श्रीमती पटेल ने कहा कि आज हमें सोचना पड़ेगा कि हमें देश के लिए क्या करना है। जब देश हित, देश प्रेम, गरीबों की सहायता, सभी को शिक्षा और सभी के विकास में सब मिलकर सहयोग करेंगे, तभी प्रधानमंत्री की सबका साथ-सबका विकास की सोच साकार रूप ले सकेगी। उन्होंने कहा कि हमारे पूर्वजों ने देश के अंतिम व्यक्ति तक लाभ पहुंचाने की सोच को बढ़ावा दिया। प्रधानमंत्री जी ने गांधी जी की मंशानुसार योजनाएं बनाकर अंतिम व्यक्ति तक उनका लाभ पहुँचाने का प्रयास किया है। मेले में कृषि उत्पादन आयुक्त, श्री पी सी मीणा, प्रमुख सचिव कृषि श्री राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव सहकारिता श्री के सी गुप्ता, मुख्य महाप्रबंधक भारतीय स्टेट बैंक श्री योगेंद्र सिंह, महाप्रबंधक यूनियन बैंक आफ इंडिया श्री जे एस चौहान, तथा अन्य विभागों के वरिष्ठ अधिकारी और प्रतिनिधि उपस्थित थे। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में महिलाएं, कृषक और गणमान्य नागरिक शामिल हुए।    

Dakhal News

Dakhal News 3 October 2018


मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

  मुख्यमंत्री ने 9.48 लाख किसानों के खातों में ट्रांसफर किये प्रोत्साहन राशि के 853 करोड़ एमपी के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने होशंगाबाद जिले के पिपरिया में कहा कि खेती की लागत घटाने के लिये खेतों में नई तकनीक का उपयोग किया जायेगा। जैविक खेती और यूनिक खेती को बढ़ावा दिया जायेगा। श्री चौहान किसान महा-सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने इस अवसर पर मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना के अंतर्गत 9 लाख 48 हजार किसानों के बैंक खातों में 853 करोड़ प्रोत्साहन राशि आरटीजीएस के माध्यम से ट्रांसफर की। मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना में किसानों को दी गई प्रोत्साहन राशि में से चना उत्पादक 14 हजार 573 किसानों के बैंक खातों में 4 करोड़ 88 लाख, मसूर उत्पादक 187 किसानों के बैंक खातों में 374 लाख, सरसो उत्पादक 93 किसानों के बैंक खातों 181 लाख तथा मूंग उत्पादक 26 हजार 501 किसानों के खाते में 57 करोड़ 7 लाख रूपये राशि प्रदान की गई। श्री चौहान ने मुख्यमंत्री उद्यमी योजना में हितग्राही मयूर डाबर को डिजीटल लाण्ड्री शुरू करने के लिये 24 लाख रूपये का ऋण स्वीकृति पत्र, नीरज साहू को हैण्डलूम शॉप के लिये 7 लाख रूपये का ऋण स्वीकृति पत्र, कृषक समृद्धि योजना में प्रतीकात्मक रूप से कृषक मान सिंह गुर्जर को एक लाख 600, खुशीलाल को 75 हजार और अशोक को 60 हजार रूपये की प्रोत्साहन राशि प्रदान की। संबल योजना में अनुग्रह राशि के रूप में हेमराज को 4 लाख एवं गुल्लू को 2 लाख रूपये की सहायता राशि प्रदान की। श्री चौहान ने विकलांग पेंशन, सरल बिजली बिल माफी योजना के हितग्राहियों को भी प्रतीकात्मक स्वरूप सहायता राशि और प्रमाण-पत्र प्रदान किये। मुख्यमंत्री द्वारा 27.89 करोड़ के कार्यों का लोकार्पण एवं भूमि-पूजन मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पिपरिया में 27 करोड़ 89 लाख रूपये लागत के 20 कार्यों का लोकार्पण और भूमि-पूजन किया। इन कार्यों में 8 करोड़ 24 लाख रूपये लागत रूपये के 5 कार्यों का लोकार्पण और 19 करोड़ 65 लाख रूपये लागत के 15 कार्यों का भूमि-पूजन शामिल है। किसान महा-सम्मेलन में जिले के प्रभारी मंत्री श्री जालम सिंह पटेल, सांसद श्री राव उदय प्रताप सिंह, विधायक श्री ठाकुरदास नागवंशी, मुख्यमंत्री श्री चौहान की धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री कुशल पटेल, म.प्र. सिविल सप्लाई कार्पोरेशन के अध्यक्ष श्री हीतेश वाजपेयी, म.प्र. खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री शिव चौबे, जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष श्री भरत सिंह राजपूत, अन्य जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या किसान और ग्रामीण शामिल हुए।  

Dakhal News

Dakhal News 29 September 2018


सब रजिस्ट्रार अशोक घूस लेते पकड़ा गया

भोपाल के आईएसबीटी स्थित रजिस्ट्रार ऑफिस में पदस्थ सब रजिस्ट्रार अशोक शर्मा को लोकायुक्त पुलिस ने 40 हजार रुपए की रिश्वत लेते दबोचा। एक ई-सर्विस प्रोवाइडर से ये रिश्वत तीन करोड़ पांच लाख रुपए के जमा स्टांप शुल्क की रजिस्ट्री जारी करने के लिए मांगी जा रही थी। सब रजिस्ट्रार ने कुल जमा स्टांप शुल्क पर .2 फीसदी कमीशन मांगा था।   पंजाबी बाग निवासी राजेश दुबे ई-सर्विस प्रोवाइडर हैं। उन्होंने रजिस्ट्री के लिए तीन करोड़ पांच लाख रुपए स्टांप शुल्क ऑनलाइन जमा कर दिया था।  राजेश के मुताबिक रजिस्ट्री लेने की बारी आई तो शर्मा अपना कमीशन मांगने लगे। बोले कि इतने स्टांप शुल्क पर .2 फीसदी कमीशन दे दो, जो 61 हजार रुपए होता है। परेशान होने के बाद राजेश ने दोबारा बात की तो अशोक बोले कि चलो 61 नहीं तो 50 हजार ही दे देना। इस पर राजेश ने 30 हजार रुपए की बात की तो अशोक ने कहा कि 40 हजार रुपए पर फाइनल करते हैं। इस बीच 25 सितंबर को राजेश ने लोकायुक्त पुलिस से इसकी शिकायत कर दी।    बाबुओं ने फैला दिया कि हमला हो गया:  टीआई सलिल शर्मा ने बताया कि रिकॉर्डिंग में 40 हजार रुपए रिश्वत मांगे जाने की पुष्टि हो गई थी। शुक्रवार दोपहर करीब एक बजे राजेश को अशोक शर्मा ऑफिस भेजा गया। अशोक ने रिश्वत की रकम लेकर अपने  ड्रॉज में रख ली। राजेश का इशारा मिलते ही योजना के तहत वहां पहले से मौजूद लोकायुक्त की टीम ने अशोक को ट्रैप कर लिया। कार्रवाई शुरू होते ही रजिस्ट्रार ऑफिस के बाबुओं ने फैला दिया कि सब रजिस्ट्रार पर किसी ने हमला कर दिया है। वहां के कर्मचारियों के साथ-साथ रजिस्ट्री कराने आए लोग भी दहशत में आ गए। अफसरों को लोकायुक्त पुलिस ने जैसे ही ट्रैप कार्रवाई की जानकारी दी, सभी अपने-अपने स्थान पर चले गए।    टीम ने अशोक के ड्रॉज से रिश्वत में लिए गए 40 हजार रुपए जब्त कर लिए। सूत्रों के मुताबिक कार्रवाई के दौरान सब रजिस्ट्रार ने टीम से कहा कि हम भी पुलिस परिवार से जुड़े हैं। बताया जा रहा है कि उनके बड़े भाई अनिल शर्मा इंदौर देहात के डीआईजी हैं। अशोक वर्ष 1995 में एमपी पीएससी के जरिए सब रजिस्ट्रार बने और उनकी पहली पोस्टिंग ग्वालियर में हुई।   

Dakhal News

Dakhal News 29 September 2018


shivraj singh

भविष्य में मास्टर प्लान में नर्सिंग होम के लिये होगा प्रावधान  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि ऐसे नर्सिंग होम, जो रिहायशी क्षेत्र में पहले से स्थापित हैं, उनको नहीं हटाया जायेगा। भविष्य में मास्टर प्लान में नर्सिंग होम के लिये रिहायशी क्षेत्रों में जगह सुरक्षित रखने के संबंध में प्रावधान किये जायेंगे। श्री चौहान आज यहाँ अपने निवास पर चिकित्सकों के सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। सम्मेलन में 14 मेडिकल एसोशिएशन के प्रतिनिधि, शासकीय एवं निजी मेडिकल कॉलेजों के जूनियर डॉक्टर शामिल हुए। श्री चौहान ने कहा कि चिकित्सा विद्यार्थियों की स्कॉलरशिप बढ़ायी जायेगी। इस संबंध में अगली केबिनेट में निर्णय लिया जायेगा। श्री चौहान ने कहा कि नर्सिंग होम्स को अब केवल बीस दिन के अंदर फॉयर एनओसी मिल जायेगी। इसे लोक सेवा गारंटी कानून में लाया जायेगा। उन्होंने कहा कि नर्सिंग होम के लिये एनएबीएच की अनिवार्यता दो साल तक समाप्त की जा रही है। इन दो सालों में नर्सिंग होम इसकी औपचारिकताएँ पूरी कर लें। नर्सिंग होम में मरीज की मृत्यु पर बिना जाँच के धारा 304 नहीं लगाने के संबंध में एक समिति बनायी गई है। समिति में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन और नर्सिंग होम एसोसिएशन के एक सदस्य चिकित्सक को शामिल किया जायेगा। उन्होंने कहा कि चिकित्सकों के कैडर फॉर्मेशन के लिये वित्त मंत्री की अध्यक्षता में एक कमेटी बनायी गई है, जो इस संबंध में जल्दी ही निर्णय लेगी। मेडिकल कॉलेज के शिक्षकों की समयबद्ध पदोन्नति के संबंध में भी विचार किया जायेगा। श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी की स्वास्थ्य के क्षेत्र में विश्व की सबसे बड़ी आयुष्मान भारत योजना को क्रियान्वित करने में शासकीय और निजी चिकित्सा मेडिकल स्टॉफ का योगदान एवं सहयोग महत्वपूर्ण होगा। उन्होंने कहा कि इस योजना में संबल योजना के लाभान्वित परिवारों को भी जोड़ा गया है। श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में डॉक्टरों की कमी पूरी करने और स्वास्थ्य अधोसंरचना को मजबूत बनाने के लिये मेडिकल कॉलेज खोले जा रहे हैं। यह सिलसिला आगे भी चलता रहेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने चिकित्सा समुदाय को हर संभव सहयोग दिया और चिकित्सा समुदाय ने भी संकट के समय लोगों की भरपूर सेवा की है। श्री चौहान ने कहा कि प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश मिलने पर उनकी पढ़ाई का खर्चा सरकार उठायेगी। पैसों के अभाव में प्रतिभाशाली बच्चे पीछे नहीं रहने चाहिये। स्वास्थ्य मंत्री श्री रूस्तम सिंह, अपर मुख्य सचिव श्री राधेश्याम जुलानिया और नर्सिंग होम एसोसिएशन के पदाधिकारी सम्मेलन में उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 27 September 2018


shivraj singh

एमपी के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में हाथियों के आगमन के संभावित स्थलों को चिन्हित किया जाये, ताकि राज्य में उनका उचित और सुरक्षित रहवास हो सके। उन्होंने कहा कि मानव और वन्य प्राणियों के हितों के संरक्षण की संतुलित और व्यवहारिक नीति पर कार्य किया जाये, ताकि उनके मध्य किसी प्रकार का संघर्ष नहीं हो। श्री चौहान ने आज मंत्रालय में राज्य वन्य प्राणी बोर्ड की 17वीं बैठक में यह बात कही। श्री चौहान ने कहा कि वन्य प्राणी द्वारा फसलों की क्षति पर किसानों को राजस्व संहिता के अंतर्गत प्रावधान कर राहत राशि दी जा रही है। लोक सेवा गारंटी कानून के अंतर्गत त्वरित सहायता दिये जाने के प्रावधान किये गये हैं। उन्होंने कहा कि अवैध उत्खनन को रोकने के लिये जनसहभागिता से सघन प्रयास किये गये हैं। खदानों को पंचायतों के सुर्पुद कर दिया गया है, ताकि ग्रामीणजन स्वयं उनका नियमन और नियंत्रण करे सकें। उन्होंने कहा कि कुनोपालपुर क्षेत्र वन्य प्राणी आबादी से समृद्ध हुआ है। रातापानी और रानी दुर्गावती अभ्यारण्य में भी वन्य प्राणियों की संख्या बढ़ी है। बैठक में बताया गया कि प्रदेश की ओर से उड़ीसा को एक जोड़ा बाघ प्रदाय किया गया है। नर एवं मादा बाघ को बांधव टाइगर रिजर्व से ले जा कर सतकोसिया टाइगर रिजर्व में सफलतापूर्वक छोड़ा गया है। इसी तरह नौरादेही अभ्यारण्य में भी एक जोड़ा बाघ की पुनर्स्थापना की गई है। बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान के स्वर्ण जयंती अवसर पर भारतीय डाकतार विभाग द्वारा विशेष आवरण जारी किया गया है। अखिल भारतीय बाघ गणना कार्यक्रम के तहत बाघ, सहभक्षी, अहेर प्रजातियों एवं उनके रहवास का वर्ष 2018 में फरवरी से मार्च माह के दौरान अनुश्रवण किया गया। फेज-वन के चार चक्रों में प्राप्त आंकड़ों की 2014 के आँकड़ों से तुलना की गई। इसमें बाघ उपस्थिति क्षेत्र में लगभग दोगुनी वृद्धि परिलक्षित हुई है। वर्ष 2014 में 717 बीटों में बाघों की उपस्थिति के चिन्ह मिले थे। वर्तमान में 1400 से अधिक बीटों में उपस्थिति के चिन्ह मिले हैं। बैठक में बोर्ड के अशासकीय सदस्यों ने विभिन्न गतिविधियों की सराहना की। साथ ही, अधिक बेहतर प्रयासों के संबंध में सुझाव भी दिये। इस मौके पर विगत बैठक के पालन-प्रतिवेदन का अनुमोदन किया गया। बैठक में वन मंत्री डॉ. गौरीशंकर शेजवार, मुख्य सचिव श्री बी.पी. सिंह तथा वन्य प्राणी बोर्ड के शासकीय और अशासकीय सदस्य मौजूद थे।  

Dakhal News

Dakhal News 27 September 2018


vishvas sarang

भोपाल में  गैस त्रासदी राहत एवं पुनर्वास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)  विश्वास सारंग ने कहा है कि समाज में व्यवस्था को सशक्त बनाने में युवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका है। श्री सारंग आज राज्य संग्रहालय के सभागार में पं. कुंजीलाल दुबे राष्ट्रीय संसदीय विद्यापीठ द्वारा आयोजित अभिविन्यास कार्यक्रम-युवा संसद 2018-19 के उद्घाटन सत्र को संबोधित कर रहे थे। श्री सारंग ने कहा कि सामाजिक बदलाव को समझना होगा और उसके अनुरूप युवा पीढ़ी को सजग बनाना होगा। आजकल नकारात्मक बातें खबरों में ज्यादा होती हैं। युवा संसद के माध्यम से युवाओं को संसद में होने वाली कार्यवाही के संबंध में बताया जाता है। ऐसे कार्यक्रम महत्वपूर्ण हैं। इससे युवाओं को संसदीय व्यवस्था के संबंध में ज्ञान प्राप्त होता है। प्रमुख सचिव एवं महानिदेशक पं. कुंजीलाल दुबे राष्ट्रीय संसदीय विद्यापीठ श्री अजीत केसरी ने बताया कि भारत सरकार के संसदीय कार्य मंत्रालय एवं मध्यप्रदेश शासन के संसदीय कार्य विभाग के सहयोग से पं. कुंजीलाल दुबे राष्ट्रीय संसदीय विद्यापीठ द्वारा कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। डॉ. प्रतिमा यादव ने अभिविन्यास कार्यक्रम-युवा संसद की जानकारी प्रस्तुत की।

Dakhal News

Dakhal News 27 September 2018


shivraj singh

    मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि संपूर्ण प्रदेश में 17 से 25 सितम्बर तक सेवा कार्य होंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज शासकीय मोतीलाल नेहरू महाविद्यालय मेंरक्तदान शिविर और यातायात उद्यान में पौधरोपण कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने महाविद्यालय में रक्तदान शिविर का शुभारंभ किया और यातायात उद्यान में पौध-रोपण किया। इस अवसर पर सांसद श्री आलोक संजर, महापौर श्री आलोक शर्मा, अध्यक्ष नगर निगम श्री सुरजीत सिंह चौहान और विधायक श्री सुरेन्द्रनाथ सिंह उपस्थित थे। रक्तदान-जीवनदान मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि रक्तदान जीवनदान है। उन्होंने रक्तदाताओं को दूसरों को जीवन देने के लिये बधाई दी। श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को प्रदेश की साढ़े सात करोड़ जनता की ओर से जन्म दिवस की बधाई दी। उन्होंने बताया कि श्री मोदी के जन्म दिवस से पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयंती तक संपूर्ण प्रदेश में सामाजिक सहयोग से निरंतर सेवा के कार्य निरंतर किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी नया भारत बनाने में जुटे हैं। मध्यप्रदेश की जनता उनके साथ खड़ी है। रक्तदान कार्यक्रम में बड़ी संख्या में रक्तदाता छात्र-छात्राएं मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने छात्र-छात्राओं के साथ सेल्फी भी खिंचवाई। वृक्ष है, तो मानव जीवन है मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वृक्ष है, तो मानव जीवन है। उन्होंने बताया कि लोकप्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का जन्म दिवस प्रदेश में सेवा दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। श्री चौहान ने कहा कि सेवा ही सबसे बड़ा उपहार है। संपूर्ण प्रदेश में नागरिक सेवा कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश का मान-सम्मान बढ़ा है। देश लगातार हर क्षेत्र में नई ऊँचाईयों को छू रहा है। हमारी अर्थ-व्यवस्था दुनिया में तेजी से आगे बढ़ रही है। मुख्यमंत्री ने यातायात पार्क में आम का पौधा लगाया।    

Dakhal News

Dakhal News 17 September 2018


shivraj singh

    मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि संपूर्ण प्रदेश में 17 से 25 सितम्बर तक सेवा कार्य होंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज शासकीय मोतीलाल नेहरू महाविद्यालय मेंरक्तदान शिविर और यातायात उद्यान में पौधरोपण कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने महाविद्यालय में रक्तदान शिविर का शुभारंभ किया और यातायात उद्यान में पौध-रोपण किया। इस अवसर पर सांसद श्री आलोक संजर, महापौर श्री आलोक शर्मा, अध्यक्ष नगर निगम श्री सुरजीत सिंह चौहान और विधायक श्री सुरेन्द्रनाथ सिंह उपस्थित थे। रक्तदान-जीवनदान मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि रक्तदान जीवनदान है। उन्होंने रक्तदाताओं को दूसरों को जीवन देने के लिये बधाई दी। श्री चौहान ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को प्रदेश की साढ़े सात करोड़ जनता की ओर से जन्म दिवस की बधाई दी। उन्होंने बताया कि श्री मोदी के जन्म दिवस से पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयंती तक संपूर्ण प्रदेश में सामाजिक सहयोग से निरंतर सेवा के कार्य निरंतर किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी नया भारत बनाने में जुटे हैं। मध्यप्रदेश की जनता उनके साथ खड़ी है। रक्तदान कार्यक्रम में बड़ी संख्या में रक्तदाता छात्र-छात्राएं मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने छात्र-छात्राओं के साथ सेल्फी भी खिंचवाई। वृक्ष है, तो मानव जीवन है मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वृक्ष है, तो मानव जीवन है। उन्होंने बताया कि लोकप्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का जन्म दिवस प्रदेश में सेवा दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। श्री चौहान ने कहा कि सेवा ही सबसे बड़ा उपहार है। संपूर्ण प्रदेश में नागरिक सेवा कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश का मान-सम्मान बढ़ा है। देश लगातार हर क्षेत्र में नई ऊँचाईयों को छू रहा है। हमारी अर्थ-व्यवस्था दुनिया में तेजी से आगे बढ़ रही है। मुख्यमंत्री ने यातायात पार्क में आम का पौधा लगाया।    

Dakhal News

Dakhal News 17 September 2018


namo

  छिन्दवाड़ा जिले के किसान लखनलाल को टमाटर की खेती से काफी फायदा हुआ है। आज उनकी गिनती क्षेत्र में प्रगतिशील किसान के रूप में होती है। प्रदेश में राज्य सरकार खेती को लाभ का धन्धा बनाने के लिये किसानों को परम्परागत फसलों के साथ-साथ उद्यानिकी फसल लेने की भी समझाइश दे रही है। जिन किसानों ने उद्यानिकी फसलों को अपनाया है, आज वे आर्थिक रूप से सक्षम हो गये है।  मोहखेड़ विकासखंड के ग्राम राजेगांव के लखनलाल डोंगरे लघु सीमांत कृषक हैं। उनके पास 5 एकड़ भूमि है, जिसमें परम्परागत रूप से फसल लेते रहे है। सिचांई के लिये कुआं होने के बावजूद उन्नत तकनीक के अभाव में उन्हे खेती से पर्याप्त लाभ नहीं मिल रहा था। इस संबंध में उन्होंने उद्यानिकी विभाग के अमले से बात की। उद्यानिकी विभाग की ओर से उन्हें टमाटर की खेती आधुनिक तकनीक के साथ करने की समझाइश मिली। किसान लखनलाल ने ड्रिप सिंचाई, मल्चिंग, रसायनिक खाद का संतुलित उपयोग करते हुए टमाटर की खेती की शुरूआत की थी। उन्होंने खेत में गोबर खाद, मल्चिंग और ड्रिप बिछाकर सेमनीज कम्पनी के अभिलाष किस्म के टमाटर बीज का रोपण किया। ड्रिप से आवश्यकतानुसार हर पौधे को एक साथ एक समान रसायनिक खाद की खुराक देकर हर पौधे पर फल की एक-सी क्वालिटी तैयार की, इससे उन्हें बाजार में अच्छे दाम मिले। किसान लखनलाल के खेत में उपजे टमाटर हैदराबाद, नागपुर, जबलपुर और इंदौर में पसन्द किये जा रहे हैं। उनकी लगन को देखते हुए उन्हे राज्य के बाहर और विदेश अध्ययन दौरे पर जाने का मौका भी मिला। उन्होंने फ्रांस और स्पेन का दौरा किया है। यात्रा के दौरान उन्हें कम तापमान में गेहूँ, मक्का और सेब की खेती, रूफ वॉटर हार्वेस्टिंग और उन्नत कृषि यंत्रों को देखने और समझने का मौका मिला है। आज अपने खेत से वर्ष भर में करीब 10 लाख रूपये की औसत आमदनी प्राप्त कर रहे है।

Dakhal News

Dakhal News 17 September 2018


shivraj singh

  मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने शाजापुर जिले में भ्रमण के दौरान लगभग 26 करोड़ रुपये लागत के विकास एवं निर्माण कार्य का लोकार्पण और भूमि-पूजन किया। मुख्यमंत्री ने ग्राम तिलवाद गोविन्द (बेरछा) में नव-निर्मित ट्रामा सेन्टर, आकस्मिक चिकित्सा, मेटरनिटी विंग, ओपीडी और एसएनसीयू ब्लॉक का लोकार्पण किया। शाजापुर में ईव्हीएम वेयर हाउस, उत्कृष्ट विद्यालय के 100-100 सीटर बालक एवं बालिका छात्रावास तथा शासकीय विधि महाविद्यालय के नवीन भवन का भूमि-पूजन किया। कार्यक्रम में सांसद श्री मनोहर ऊँटवाल, विधायक श्री अरूण भीमावद, श्री जसवंत सिंह हांडा, श्री नरेन्द्र सिंह बेस, अन्य जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में आमजन उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 17 September 2018


shivraj singh

मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना का लाभ अब उन विद्यार्थियों को भी मिलेगा, जिन्होंने सीबीएसई सिलेबस के तहत बारहवीं में 80 प्रतिशत अंक हासिल किए हैं। खंडवा में  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यह घोषणा करते हुए कहा कि पूर्व में 85 प्रतिशत की सीमा को घटाकर 80 प्रतिशत कर दिया जाएगा। श्री चौहान ने खंडवा में 500 बिस्तर के अत्याधुनिक अस्पताल खोलने की भी घोषणा की। श्री चौहान ने खंडवा में 200 करोड़ रुपए लागत के मेडिकल कॉलेज भवन का लोकार्पण करते हुए कॉलेज में बीएससी नर्सिंग कॉलेज खोलने की घोषणा की। 10 वर्षो में 2500 मेडिकल सीट बढ़ी खण्डवा में प्रदेश का दसवां मेडिकल कॉलेज आज से प्रारंभ हो गया है। वर्ष 1946 में प्रदेश में पहला मेडिकल कॉलेज ग्वालियर में खुला। वर्ष 1963 तक कुल 5 मेडिकल कॉलेज बड़े शहरों में खोले गये। इसके बाद 45 वर्षों के लंबे अंतराल में कोई भी मेडिकल कॉलेज प्रदेश में नहीं खुला। वर्ष 2009 में सागर में छठवाँ मेडिकल कॉलेज खुला और अब वर्ष 2018 में एक वर्ष में ही 4 नये मेडिकल कॉलेज खण्डवा, विदिशा, दतिया और रतलाम में खोले जा रहे हैं। मुख्यमंत्री की जन-स्वास्थ्य के प्रति संवेदना एवं प्रबल संकल्प शक्ति के फलस्वरूप तीन और मेडिकल कॉलेज वर्ष 2019 में सिवनी, छतरपुर तथ सतना में खोलने की स्वीकृति प्रदान की गई हैं। वर्ष 1946 से 1963 तक एमबीबीएस की मात्र 600 सीटें होती थीं, जो विगत 10 वर्ष में ही बढ़कर 4 गुना से भी अधिक अर्थात् 2500 सीटें हो जायेगी। यही नहीं, इस वर्ष 2018 में एक ही कैलेण्डर वर्ष में 4 नये मेडिकल कॉलेज एक साथ खुलना मध्यप्रदेश के इतिहास में एक स्वर्णिय अध्याय हैं। अब प्रदेश में प्रतिवर्ष 2500 डाक्टर तैयार होंगे। श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में वर्ष 1964 के बाद से कोई मेडिकल कॉलेज नहीं खोला गया था। सरकार ने आधारभूत संरचना उपलब्ध करवाते हुए नवीन मेडिकल कॉलेज खोले। इससे प्रदेश में डॉक्टरों की कमी दूर होगी। उन्होंने खंडवा मेडिकल कॉलेज के शुभारंभ पर निमाड़वासियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि यह मेडिकल कालेज इस सत्र से प्रारंभ हो गया है। मुख्यमंत्री ने छात्र सौरभ पटेल और छात्रा प्रीति मिश्रा को मौके पर ही मेधावी विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना से लाभांवित किया। उन्होंने मेडिकल कॉलेज भवन निर्माण के लिए स्वीकृत 200 करोड़ के अतिरिक्त विभिन्न उपकरणों और आवश्यक सामग्री के लिए 300 करोड़ देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने मेडिकल के सभी नव-प्रवेशित विद्यार्थियों को अपनी ओर से हनुमंतिया टूर करवाने के निर्देश स्थानीय प्रशासन को दिए। कार्यक्रम में स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. कुंवर विजय शाह, विधायक श्री देवेंद्र वर्मा और सांसद श्री नंदकुमार सिंह चौहान ने भी विचार व्यक्त किये। इस मौके पर राज्य सभा सांसद श्री प्रभात झा, विधायक श्रीमती योगिता बोरकर और आयुक्त चिकित्सा शिक्षा श्री शिवशेखर शुक्ला उपस्थित थे।    

Dakhal News

Dakhal News 7 September 2018


shivraj singh

  मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज हरदा जिले में कहा कि सिराली को नगर परिषद बनाया जायेगा और यहाँ महाविद्यालय भवन का निर्माण करवाया जायेगा। उन्होंने रहटगाँव में महाविद्यालय खोलने की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री आज सिराली और खिरकिया में 119 करोड़ के निर्माण एवं विकास कार्यों का लोकार्पण तथा भूमि-पूजन करने के बाद विशाल जनसभा को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर हरदा में 100 सीटर बालिका छात्रावास और 100 सीटर बालक छात्रावास, निर्वाचन विभाग के 1500 ईवीएम गोडाउन का भूमि-पूजन किया। इसी के साथ, स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल मांदला, पीपल्या, मोरगढ़ी, शासकीय हाई स्कूल रामटेकरेयत हायर सेकेण्डरी मॉडल स्कूल चेकड़ी, बालिका छात्रावास चारुवा, शासकीय हाई स्कूल भवन जटपुरामॉल, शासकीय हायर सेकेण्डरी कन्या स्कूल सिराली, शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नयापुरा, सोडलपुर, सोनतलाई, हंडिया, रहटगाँव, टिमरनी और धौलपुरकलां के भवनों का शिलान्यास किया।  

Dakhal News

Dakhal News 7 September 2018


shivraj singh

एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भगवान श्रीकृष्ण से कृपा की वर्षा करने की प्रार्थना की है। उन्होंने कहा है कि प्रगति और विकास पथ पर प्रदेश-देश लगातार उन्नति करे। सबके जीवन में सुख-समृद्धि, रिद्धी-सिद्धी आये। श्री चौहान ने यह प्रार्थना कृष्ण जन्माष्टमी कार्यक्रम में की। सर्वधर्म समभाव की परंपरा को आगे बढाते हुए मुख्यमंत्री निवास में श्री कृष्ण जन्मोत्सव श्रद्धा और भक्ति भाव से आज मनाया गया। इस अवसर पर श्री चौहान की धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह भी मौजूद थीं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भगवान श्री कृष्ण के श्रीचरणों में नमन करते हुये कृपा और आनंद की वर्षा करने की प्रार्थना की। उन्होंने भक्तगणों का आव्हान किया कि भगवान श्रीकृष्ण की भक्ति में लीन हो जायें। उन्होंने सभी को कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएँ दी। सब सुखी, सब निरोगी हों। श्री चौहान ने बताया कि भोपाल सेंट्रल जेल के कार्यक्रम में बंदियों के भक्ति रंग को देख, वे अत्यंत प्रभावित हुये। उन्हें कार्यक्रम में प्रस्तुति देने के लिये आमंत्रित किया। उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति में एक अच्छा इंसान जिंदा रहता है। कई बार विपरीत परिस्थितियों वश जेल जाना पड़ता है। आपातकाल के दौरान उन्हें भी भोपाल जेल में रहना पड़ा था। भगवान श्रीकृष्ण का जन्म भी कारागार में हुआ था। जन्मोत्सव में सेंट्रल जेल भोपाल के बंदियों द्वारा भक्ति संगीत की ऐसी धारा प्रवाहित की गई जिसमें सारा परिवेश भक्तिरस में सराबोर हो गया। भगवान श्रीकृष्ण के भजनों से वातावरण कृष्णमय होकर, पूरी तरह आध्यात्मिक बन गया। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री ने सभी धर्मों के विशिष्ट त्यौहारों और अवसरों पर मुख्यमंत्री निवास में उत्सवों के आयोजन की परंपरा स्थापित की है। इसे गरिमा के साथ आगे बढ़ाते जा रहे हैं। इसी श्रंखला मे आज श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का त्यौहार पूरी पारंपरिक गरिमा एवं अनुष्ठान से मनाया गया। बडी संख्या में श्रद्धालुओं ने भाग लिया। उत्सव में विधिवत कृष्ण जन्म, मटकी फोड़, पूजन-अर्चन आदि के कार्यक्रम भक्तिपूर्ण उल्लासमय गरिमा के साथ मनाये गये। मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पावन अवसर पर प्रदेशवासियों और श्रद्धालुओं को हार्दिक शुभकामनाएँ दी हैं। श्री चौहान ने शुभकामना संदेश में कहा कि भगवान श्रीकृष्ण ने श्रीमद् भगवद् गीता के माध्यम से कर्मयोग की शिक्षा दी। उन्होंने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण का जीवन, भक्ति-ज्ञान और कर्म के मार्ग पर चलने की प्रेरणा देता है। प्रेम, भक्ति और आध्यात्मिक उत्कर्ष उनके दार्शनिक तत्व हैं। मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों से भगवान श्रीकृष्ण के आदर्शों पर चलने का आव्हान करते हुए कहा कि भक्ति, कर्म और ज्ञान मार्ग से ही समाज और प्रदेश के नव-निर्माण का मार्ग प्रशस्त होगा। राज्यपाल ने जन्माष्टमी पर प्रदेशवासियों को दी बधाई राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने जन्माष्टमी के पावन पर्व पर प्रदेशवासियों को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। श्रीमती पटेल ने शुभकामना संदेश में कहा है कि भगवान श्रीकृष्ण ने दुनिया को सत्य के मार्ग पर चलते हुए कठिनाईयों का सामने करने की सीख दी है। भगवद गीता के उपदेश जनमानस के लिए जीवन दर्शन प्रस्तुत करते हैं। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण द्वारा दिया गया गीता का ज्ञान विश्व में आज भी प्रासांगिक है। श्रीमती पटेल ने जन्माष्टमी के पावन पर्व पर प्रदेशवासियों की सुख- समृद्धि की कामना की है।  

Dakhal News

Dakhal News 4 September 2018


narottm mishra

  जनसम्पर्क एवं जल संसाधन मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने  दतिया नगर में वर्षा प्रभावित बस्तियों का दौरा किया। डॉ. मिश्र बरसते पानी में गलियों से होते हुए जल-भराव वाले क्षेत्र में पहुँचे और अधिकारियों को जल निकासी के लिये निर्देश दिये। डॉ. मिश्र ने नागरिकों से कहा कि परेशानी में हम आपके साथ हैं। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि रास्तों में भरे पानी को निकाले, जहाँ अवरोध है उन्हें तत्काल हटायें। डॉ. मिश्र ने परदेशी बस्ती में बिजली के लिये 25 लाख रुपये इलेक्ट्रीक पोल लागने के लिये स्वीकृत किये। सोनागिर में जनसम्पर्क मंत्री ने मुख्यमंत्री जन-कल्याण संबल योजना के हितग्राहियों को स्मार्ट कार्ड वितरण किया। मंत्री डॉ. मिश्र दतिया में पटेल समाज के कार्यक्रम में भी शामिल हुए। उन्होंने जनमानस को सरदार वल्लभ भाई पटेल के राष्ट्र निर्माण में योगदान का स्मरण कराया।

Dakhal News

Dakhal News 4 September 2018


shivraj singh

  एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज सागर जिले के रहली में 1700 करोड़ रुपये लागत के विकास एवं निर्माण कार्यों का शिलान्यास तथा भूमिपूजन किया। इस मौके पर पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव, गृह मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह, सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, अन्य जन-प्रतिनिधि तथा बड़ी संख्या में ग्रामीण तथा शहरी लोग मौजूद थे। श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार समाज के किसान, गरीब और जरूरतमंद लोगों के जीवन को खुशहाल बनाने के लिये सभी संभव प्रयास कर रही है। उन्होंने प्रदेश में संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए लोगों से आग्रह किया कि योजनाओं का लाभ लेने के लिये आगे आयें। श्री चौहान ने इस मौके पर प्रदेश की तरक्की के लिये अपनी प्रतिबद्धता दोहराई।  

Dakhal News

Dakhal News 30 August 2018


shivraj singh

  एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि गरीबी हटाने के हमने केवल नारे नहीं दिये, बल्कि गरीबों की जिन्दगी में खुशहाली लाने के ठोस इन्तजाम किये हैं। विकास के साथ जनता की जिन्दगी बदलने का अभियान शुरू किया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान बुधवार को सागर जिले के सुरखी में जेरा मध्यम सिंचाई परियोजना सहित 300 करोड़ रूपये के विकास कार्यों के भूमि-पूजन अवसर पर बोल रहे थे। इस मौके पर उन्होंने सुरखी को नगर पंचायत बनाने एवं सुरखी में आईटीआई खोलने की घोषणा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमें डेढ़ दशक पहले बदहाल एवं बर्बाद प्रदेश मिला था, जिसमें न सड़कें थी, न सिंचाई के साधन थे, न बिजली थी, शिक्षा व्यवस्था चौपट थी, बच्चों का भविष्य अंधकार में था और लोगों की जिन्दगी में अंधेरा छाया हुआ था। हमने बदहाल प्रदेश को खुशहाल बनाया है। उन्होंने प्रदेश में संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए लोगों से आग्रह किया कि योजनाओं का लाभ लेने के लिये आगे आयें। उन्होंने बताया कि समाज के कमजोर वर्ग को मूलभूत सुविधाऐं उपलब्ध कराने के लिये संबल योजना आंरभ की गयी है। गरीब परिवारों के भारी भरकम बिजली के बिल माफ कर उन्हे मात्र दो सौ रूपये प्रतिमाह के मान से बिजली देने का निर्णय लिया गया है। श्री चौहान ने इस मौके पर प्रदेश की तरक्की के लिये अपनी प्रतिबद्धता दोहराई। इस दौरान श्री चौहान ने कहा कि किसानों को जितना पैसा इस सरकार ने दिया है उतना उन्हें कभी नहीं मिला। हमने किसानों को उनके पसीने की पूरी कीमत देने की व्यवस्था की है। इन सिंचाई परियोजनाओं से बुंदेलखण्ड की खेती-किसानी की तस्वीर बदल जायेगी। उन्होंने 171 करोड़ रूपये के जेरा मध्यम सिंचाई परियोजना का भूमि-पूजन किया इससे लगभग 50 हजार एकड़ भूमि की सिंचाई होगी। साथ ही उन्होंने 13.86 करोड़ रूपये की कालीपठार सिंचाई परियोजना एवं 12.75 करोड़ रूपये की पड़रियाकलॉ बांध का भूमि-पूजन किया। कार्यक्रम में क्षेत्रीय विधायक श्रीमती पारूल साहू ने स्वागत भाषण दिया। इस अवसर पर वन मंत्री श्री गौरीशंकर शेजवार, गृह एवं परिवहन मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह, राज्यसभा सांसद श्री प्रभात झा, सागर सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, दमोह सांसद श्री प्रहलाद पटेल, बण्डा विधायक श्री हरवंश सिंह राठौर, श्री नारायण प्रसाद कबीरपंथी, राज्य महिला आयोग अध्यक्ष श्रीमती लता वानखेड़े सहित अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 30 August 2018


shivraj singh

राष्ट्रपति जीवनरक्षक पदक के लिये जांबाजों की होगी अनुशंसा एमपी के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जांबाज नागरिकों और सिपाहियों को राष्ट्रपति जीवनरक्षक पदक दिलवाने की अनुशंसा की जायेगी। दूसरों के लिये अपनी जान जोखिम में डालने वाले जांबाज ही समाज के असली हीरो होते हैं। श्री चौहान मुख्यमंत्री निवास पर शिवपुरी में अतिवर्षा से सुल्तानगढ़ स्थल पर फँसे नागरिकों को बचाने वाले जांबाज नागरिकों और सिपाहियों को सम्मानित कर रहे थे। उन्होंने चार नागरिकों को पाँच-पाँच लाख रूपये की सम्मान निधि भेंट की। जिला पुलिस बल के चार और राज्य अनुक्रिया बल ग्वालियर के तीन सदस्यों को पृथक से सम्मानित किये जाने के निर्देश दिये। पुलिस महानिदेशक श्री ऋषि कुमार शुक्ला, महानिदेशक नागरिक सुरक्षा और आपदा प्रबंधन श्री महान भारत सागर भी मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अच्छे काम करने वालों की सराहना की जाना चाहिये। उन्होंने कहा विगत दिवस शिवपुरी जिले के मोहना के निकट सुल्तानगढ़ में फँसे नागरिकों को बचाने के कार्य में नागरिकों, राज्य आपदा अनुक्रिया बल, पुलिस और प्रशासन ने प्रशंसनीय कार्य किया है। उन्होंने बताया कि घटना की जानकारी मिलने पर वे रातभर जागकर स्थिति की जानकारी लेते रहे। केन्द्रीय रक्षा मंत्री, गृह मंत्री से चर्चा की। बचाव के लिये भारतीय वायु सेना का हेलीकाप्टर आया, उसने पाँच लोगों को बचाया। किन्तु मौसम खराब हो जाने से उसे वापस जाना पड़ा। ऐसे समय में जांबाज ग्रामीण साथी देवदूत बनकर सामने आये और पानी कम होने पर वे साहसपूर्वक तैरकर रस्से से पार ले गये। उनके साहस और सामाजिक कर्त्तव्य-बोध को देख कर ही उनको सम्मानित करने का निर्णय उन्होंने किया। उन्होंने बताया कि केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर और खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया भी घटना-स्थल पहुँची थी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नागरिक श्री रामदास पुत्र सभाराम, श्री भागीरथ पुत्र जलमा, श्री निजाम शाह पुत्र शंभू शाह और श्री कल्लन बाथम पुत्र रामजीलाल को पाँच-पाँच लाख रूपये की सम्मान निधि से सम्मानित किया। साथ ही राज्य अनुक्रिया बल ग्वालियर के उप निरीक्षक श्री प्रदीप कुमार, प्रधान आरक्षक श्री राजेश कुमार यादव, श्री गजेन्द्र सिंह कौरव को तथा जिला पुलिस बल के उप निरीक्षक श्री गोपाल चौबे, उपनिरीक्षक श्री सुरेन्द्र सिंह यादव, उप निरीक्षक श्री अमित शर्मा और आरक्षक श्री मुकेश यादव को सम्मानित करते हुए कहा कि उन्हें भी पृथक से सम्मान निधि दी जायेगी।  

Dakhal News

Dakhal News 24 August 2018


shivraj singh

राष्ट्रपति जीवनरक्षक पदक के लिये जांबाजों की होगी अनुशंसा एमपी के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जांबाज नागरिकों और सिपाहियों को राष्ट्रपति जीवनरक्षक पदक दिलवाने की अनुशंसा की जायेगी। दूसरों के लिये अपनी जान जोखिम में डालने वाले जांबाज ही समाज के असली हीरो होते हैं। श्री चौहान मुख्यमंत्री निवास पर शिवपुरी में अतिवर्षा से सुल्तानगढ़ स्थल पर फँसे नागरिकों को बचाने वाले जांबाज नागरिकों और सिपाहियों को सम्मानित कर रहे थे। उन्होंने चार नागरिकों को पाँच-पाँच लाख रूपये की सम्मान निधि भेंट की। जिला पुलिस बल के चार और राज्य अनुक्रिया बल ग्वालियर के तीन सदस्यों को पृथक से सम्मानित किये जाने के निर्देश दिये। पुलिस महानिदेशक श्री ऋषि कुमार शुक्ला, महानिदेशक नागरिक सुरक्षा और आपदा प्रबंधन श्री महान भारत सागर भी मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अच्छे काम करने वालों की सराहना की जाना चाहिये। उन्होंने कहा विगत दिवस शिवपुरी जिले के मोहना के निकट सुल्तानगढ़ में फँसे नागरिकों को बचाने के कार्य में नागरिकों, राज्य आपदा अनुक्रिया बल, पुलिस और प्रशासन ने प्रशंसनीय कार्य किया है। उन्होंने बताया कि घटना की जानकारी मिलने पर वे रातभर जागकर स्थिति की जानकारी लेते रहे। केन्द्रीय रक्षा मंत्री, गृह मंत्री से चर्चा की। बचाव के लिये भारतीय वायु सेना का हेलीकाप्टर आया, उसने पाँच लोगों को बचाया। किन्तु मौसम खराब हो जाने से उसे वापस जाना पड़ा। ऐसे समय में जांबाज ग्रामीण साथी देवदूत बनकर सामने आये और पानी कम होने पर वे साहसपूर्वक तैरकर रस्से से पार ले गये। उनके साहस और सामाजिक कर्त्तव्य-बोध को देख कर ही उनको सम्मानित करने का निर्णय उन्होंने किया। उन्होंने बताया कि केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर और खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया भी घटना-स्थल पहुँची थी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नागरिक श्री रामदास पुत्र सभाराम, श्री भागीरथ पुत्र जलमा, श्री निजाम शाह पुत्र शंभू शाह और श्री कल्लन बाथम पुत्र रामजीलाल को पाँच-पाँच लाख रूपये की सम्मान निधि से सम्मानित किया। साथ ही राज्य अनुक्रिया बल ग्वालियर के उप निरीक्षक श्री प्रदीप कुमार, प्रधान आरक्षक श्री राजेश कुमार यादव, श्री गजेन्द्र सिंह कौरव को तथा जिला पुलिस बल के उप निरीक्षक श्री गोपाल चौबे, उपनिरीक्षक श्री सुरेन्द्र सिंह यादव, उप निरीक्षक श्री अमित शर्मा और आरक्षक श्री मुकेश यादव को सम्मानित करते हुए कहा कि उन्हें भी पृथक से सम्मान निधि दी जायेगी।  

Dakhal News

Dakhal News 24 August 2018


आनन्दीबेन पटेल

राज्यपाल  द्वारा उज्जैन में संस्कृत विश्वविद्यालय में विभिन्न कार्यों का शुभारंभ मध्यप्रदेश की राज्यपाल  आनन्दीबेन पटेल ने उज्जैन में महर्षि पाणिनी संस्कृत वैदिक विश्वविद्यालय परिसर में नवनिर्मित महर्षि पतंजलि छात्रावास एवं संस्कृत शिक्षण-प्रशिक्षण, ज्ञान-विज्ञान संवर्द्धन-योग केन्द्र का शुभारम्भ किया। राज्यपाल ने कहा कि महर्षि पाणिनी संस्कृत विश्वविद्यालय के बटुक एक दिन महान राजनीतिज्ञ चाणक्य बनकर राष्ट्र को नई दिशा देंगे। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि आज यहां विश्वविद्यालय परिसर में शिक्षा प्राप्त करने वाले बेटे-बेटियों ने मिलकर 1111 पौधे रोपकर गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में नाम दर्ज करवाकर विश्वविद्यालय को गौरव प्रदान किया है। यह देशवासियों के लिये एक अनुकरणीय उदाहरण है। राज्यपाल ने कहा कि पर्यावरण को स्वच्छ, संतुलित तथा स्वस्थ बनाये रखने की दिशा में ऐसे प्रयास निरन्तर होते रहने चाहिये। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि हमारी संस्कृति संस्कृत के बिना संभव नहीं है। इसमें मां-बेटी का सम्बन्ध है। संस्कृत मां है और उसकी बेटी संस्कृति है। राज्यपाल ने कहा कि संस्कृत केवल मातृभाषा ही नहीं है, एक विचार भी है। संस्कृत एक संस्कृति है, संस्कार है, सभ्यता भी है और वह आचार संहिता भी है। विश्व का सबसे उत्कृष्ट ज्ञान और विज्ञान है। संस्कृत सबका मूल है। राज्यपाल ने विश्वविद्यालय के कुलपति से कहा कि विश्वविद्यालय में सौर ऊर्जा का प्लांट लगाया जाये। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री का कहना है कि सौर ऊर्जा क्षमता में वृद्धि का लाभ किसानों और आम लोगों तक पहुँचाना चाहिये। विश्वविद्यालय में स्वास्थ्य जाँच शिविर लगाये जायें और उसमें छात्राओं के स्वास्थ्य जांच पर विशेष ध्यान दिया जाना चाहिये। कार्यक्रम को विधायक डॉ.मोहन यादव ने भी संबोधित किया। शुरूआत में कुलपति प्रो.रमेशचंद्र पांडा ने विश्वविद्यालय के बारे में जानकारी दी। कार्यक्रम में राज्यपाल एवं अन्य अतिथियों ने कात्यायन शुल्बसूत्र, व्यक्तित्व का मनोविज्ञान एवं दर्शन आदि नाम की पुस्तकों का विमोचन किया। राज्यपाल ने विश्वविद्यालय की मीनाक्षी सेन को एमपीपीएससी में संस्कृत में सहायक अध्यापक का चयन होने पर सम्मानित किया। वहीं विश्वविद्यालय के एवं संबद्धता वाले महाविद्यालयों के संस्कृत में प्रथम आने पर छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने रूद्राक्ष का पौधा रोपा। अन्य अतिथियों और सैकड़ों छात्र-छात्राओं ने विद्यालय परिसर और विद्यालय के समीप की पहाड़ी पर एकसाथ पौध-रोपण किया। अंत में कुलसचिव श्री मनोज कुमार तिवारी ने आभार माना।  

Dakhal News

Dakhal News 24 August 2018


डेंगू वाइरस दुर्ग में ले रहा है जान

  जिस डेंगू के डी-2 वायरस ने दिल्ली में कहर बरपाया था, वही भिलाई में लोगों की जान ले रहा है। इसका खुलासा राष्ट्रीय जनजाति स्वास्थ्य अनुसंधान केंद्र जबलपुर की रिपोर्ट में हुआ है। भिलाई में डेंगू के 13 मरीजों के सेंपल में डी-2 वायरस मिले हैं। भिलाई में 23 जुलाई से डेंगू ने दस्तक दी है। इसके बाद से अब तक 588 लोगों को डेंगू हो चुका है। मंगलवार को लक्ष्मण नगर छावनी की किशोरी सरस्वती (17) की रायपुर के बालाजी अस्पताल में डेंगू से मौत हो गई। इस तरह भिलाई में डेंगू से 23 व प्रदेश में 24 मौतें हो चुकी हैं। भिलाई में हालात बिगड़ते देख स्टेट हेल्थ सचिवालय ने रिसर्च के लिए राष्ट्रीय जनजाति स्वास्थ्य अनुसंधान केंद्र जबलपुर के विशेषज्ञों को बुलाया था। 14 अगस्त को आई उनकी रिपोर्ट में डेंगू के वायरस में कोई बदलाव नहीं आया। उसके बाद भिलाई में सात और मौतें हो गईं। तब एनसीडीसी नई दिल्ली के विशेषज्ञ पहुंचे। जबलपुर के विशेषज्ञों की टीम दोबारा यहां से डेंगू मरीजों के ब्लड सेंपल ले गई। विभागीय अधिकारी बताते हैं कि डेंगू के डी-2 वायरस से तीन साल पहले दिल्ली में बड़ी संख्या में लोगों की मौत की वजह बने थे।

Dakhal News

Dakhal News 24 August 2018


atal bihari vajpeyi

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी की स्मृतियों को अक्षुण्ण बनाये रखने के लिये राज्य सरकार ने कई निर्णय लिये हैं। भोपाल और ग्वालियर में स्वर्गीय अटल जी की स्मृति में भव्य स्मारक बनाये जायेंगे। ग्वालियर के गोरखी के जिस विद्यालय में स्वर्गीय वाजपेयी कक्षा 6 से 8 तक पढ़े थे उसे उच्च गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के केन्द्र के रूप में विकसित किया जायेगा। इसमें स्मार्ट क्लास, प्लेनेटोरियम और म्यूजियम बनाया जायेगा, साथ ही स्वर्गीय अटल जी की प्रतिमा स्थापित की जायेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज यहाँ मुख्यमंत्री निवास में कहा कि स्वर्गीय अटल जी की स्मृति में भोपाल और ग्वालियर में स्मृति वन स्थापित किये जायेंगे। जिनमें अटल जी की प्रतिमा के साथ उनके कार्यों को बेहतर ढ़ंग से प्रस्तुत किया जायेगा ताकि भावी पीढ़ी को प्रेरणा मिल सके। भोपाल में 600 करोड़ रूपये की लागत से बन रहे ग्लोबल स्किल पार्क का नाम स्वर्गीय अटल जी के नाम पर रखा जायेगा। प्रदेश के स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित किये जा रहे सात शहरों भोपाल, इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन, सागर और सतना में स्वर्गीय अटल जी के नाम पर विश्वस्तरीय लाइब्रेरी स्थापित की जायेगी। इन लाइब्रेरियों को सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के रूप में युवाओं के लिये कोचिंग, शोध और सामाजिक चिंतन के केन्द्र के रूप में विकसित किया जायेगा। इसी तरह सात स्मार्ट सिटी में बन रहे इनक्यूबेशन सेंटर्स का नाम स्वर्गीय अटल जी के नाम पर रखा जायेगा। इन सेंटरों पर मध्यप्रदेश के युवाओं को स्टार्टअप स्थापित करने की सुविधाएं उपलब्ध करायी जायेंगी। स्वर्गीय अटल जी की जीवनी स्कूली शिक्षा के पाठ्यक्रम में होगी मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि स्वर्गीय अटल जी की जीवनी अगले वर्ष से स्कूली शिक्षा के पाठ्यक्रम में शामिल की जायेगी। स्वर्गीय अटल जी के नाम से तीन राष्ट्रीय पुरस्कार स्थापित किये जायेंगे। पाँच-पाँच लाख रूपये के यह पुरस्कार कविता, पत्रकारिता और सुशासन के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वालों को दिये जायेंगे। प्रदेश में श्रमिकों के बच्चों के लिये बनाये जा रहे चार श्रमोदय विद्यालयों के नाम भी स्वर्गीय अटल जी के नाम पर रखे जायेंगे। विदिशा में शुरू हो रहे मेडिकल कॉलेज का नाम भी स्वर्गीय अटल जी के नाम पर रखा जायेगा। भोपाल के अत्याधुनिक हबीबगंज रेल्वे स्टेशन का नाम स्वर्गीय अटल जी के नाम पर करने के लिये केन्द्रीय रेलमंत्री से आग्रह किया जायेगा। 21 अगस्त को भोपाल में श्रद्धांजलि सभा मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आगामी 21 अगस्त को भोपाल में समाज का हर वर्ग स्वर्गीय अटल जी को श्रद्धांजलि दें इसके लिये रविन्द्र भवन के मुक्ताकाश में श्रद्धांजलि सभा आयोजित की जायेगी। आगामी 22 से 25 अगस्त बीच सभी जिला मुख्यालय में तथा आगामी 25 से 30 अगस्त के बीच सभी विकासखण्ड और ग्राम पंचायतों में भी श्रद्धांजलि सभा आयोजित की जायेगी। स्वर्गीय अटल जी के अस्थियों को नर्मदा सहित प्रदेश की सभी प्रमुख नदियों में प्रवाहित किया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि केरल के बाढ़ प्रभावितों के लिये राज्य सरकार द्वारा दस करोड़ रूपये की सहायता राशि भेजी जायेगी। उन्होंने प्रदेशवासियों से भी अपील की है कि संकट की इस घड़ी में अपने सामर्थ्य के अनुसार केरल के बाढ़ प्रभावितों को सहयोग करें। इसके लिये मुख्यमंत्री सहायता कोष में केरल सहायता के नाम से खाता क्रमांक 37885301406 स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, बल्लभ भवन शाखा में राशि जमा करा सकते हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 18 August 2018


MP

  सिवनी जिले के ग्राम जमुनिया की 13 वर्षीय बालिका सुलोचना अक्सर बीमार रहती थी। कुछ नासमझी और कुछ आर्थिक स्थिति के कारण उसका कभी  ढंग का इलाज नहीं हुआ। सुलोचना की किस्मत कहिये कि एक दिन आरबीएसके की टीम गांव पहुँच गई। टीम ने जाँच में सुलोचना को गंभीर हृदय रोग से ग्रसित पाया। जिला प्रशासन की मदद से 24 जुलाई को नागपुर के श्रीकृष्णा हास्पिटल में उसकी हार्ट सर्जरी हुई। ऑपरेशन तो सफल रहा पर सुलोचना ठीक से अपने पैरों पर खड़ी नहीं हो पा रही थी। उसका स्कूल जाना भी बंद हो गया। माता-पिता हैरान-परेशान थे। लगभग एक साल तक ऐसी ही स्थिति में रहने से सुलोचना का मनोबल गिरने लगा था। उपचार के दौरान होम्योपैथी चिकित्सक डॉ. तारेन्द्र डेहरिया ने सुलोचना और उसके माता-पिता को ढांढस बंधाया कि होम्योपैथिक इलाज से वह ठीक हो सकती है। डॉ. डेहरिया ने 6 माह तक सुलोचना का नि:शुल्क उपचार किया। अब सुलोचना अपने पैरों पर खड़ी होने के साथ ही चलने भी लगी है। डॉक्टर का विश्वास है कि जल्दी ही सुलोचना दौड़ने और खेलने-कूदने लगेगी।

Dakhal News

Dakhal News 18 August 2018


आनंदीबेन पटेल

राष्ट्रपति पदक प्राप्त पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों से भेंट राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से आज मध्यप्रदेश पुलिस के राष्ट्रपति पदक प्राप्त पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों ने भेंट की। राज्यपाल ने बधाई और शुभकामनाएँ देते हुए कहा कि मध्यप्रदेश देश का प्रथम राज्य है, जहां नाबालिगों से दुष्कर्म के मामलों में फांसी की सजा का प्रावधान किया गया है। बच्चियों से दुष्कर्म के मामले में पुलिस अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा त्वरित कार्यवाही एवं न्यायालय में साक्ष्य प्रस्तुतीकरण के कारण दोषियों को कम से कम समय में दण्डित किया जा रहा है। पुलिस की ही निरंतर और प्रभावी कोशिशों के चलते  मध्यप्रदेश में कानून-व्यवस्था संतोषजनक है पुलिस को अपनी जन-हितैषी छवि को और पुख्ता बनाने की आवश्यकता है। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि  उन्नत तकनीकी,  इंटरनेट एवं सोशल मीडिया के कारण साइबर अपराधों में वृद्धि हो रही है। अपराधों की रोकथाम तथा कानून व्यवस्था की स्थिति बेहतर बनाये रखने के लिए पुलिस आधुनिकीकरण पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है।  साहसी,  कर्मठ और बहादुर पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों को पदक से सम्मानित किया जाना समूचे प्रदेश के लिये गौरव और अभिमान का प्रसंग है। राज्यपाल ने कहा कि महिला अपराधों के प्रति जागरुकता तथा बच्चियों एवं महिलाओं को आत्मरक्षा के लिए सशक्त बनाने के उद्देश्य से पुलिस द्वारा कई नवाचार किए जा रहे हैं। प्रदेश के 12 जिलों के 180 थानों में URJA डेस्क (अरजेन्ट रिलीफ एण्ड जस्ट एक्शन डेस्क) स्थापित की जा रही हैं। पुलिस महानिदेशक श्री ऋषि कुमार शुक्ला, ने पुलिस की गतिविधियों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि मध्यप्रदेश पुलिस प्रदेश को सुरक्षित बनाये रखने के प्रति कटिबद्ध है। उन्होंने कहा कि महिलाओं के खिलाफ उत्पीड़न और बलात्कार की घटनाओं को पुलिस ने चुनौति के रूप में लिया है। त्वरित कार्यवाही करते हुए बच्चियों से बलात्कार के 10 मामलों में दोषियों को फांसी की सजा दिलाई है। इस अवसर पर म.प्र. पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन के चेयरमेन, श्री विजय कुमार सिंह, विशेष महानिदेशक, पुलिस सुधार श्री मैथिलीशरण गुप्त, राज्यपाल के सचिव श्री डी.डी.अग्रवाल तथा पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी और पदक प्राप्त अधिकारियों और कर्मचारियों के परिजन उपस्थित थे। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक,विसबल श्री विजय यादव ने आभार व्यक्त किया।

Dakhal News

Dakhal News 16 August 2018


मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान

मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि ‘मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना’ में वार्षिक आय सीमा को 6 से बढ़ाकर 8 लाख रुपये वार्षिक किया गया है। इससे पुलिस परिवार के प्रतिभावान बच्चों को भी उच्च शिक्षा में सुविधा होगी। बच्चों की शिक्षा के लिये और भी जो करना होगा, अवश्य किया जायेगा। पुलिस परिवारों की शिक्षा स्वास्थ्य और आवास सुविधाओं को बेहतर करने के कार्य निरंतर हो रहे हैं। बुनियादी सुधार के प्रयासों को भी विस्तारित किया जायेगा। श्री चौहान आज प्रदेश पुलिस के पदक विजेता अधिकारियों-कर्मचारियों और उनके परिजनों को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पुलिस विपरीत परिस्थितियों में कार्य करती है उनके परिवार का जीवन भी कठिनाई में रहता है इसी लिये पुलिस परिवार के प्रति उनका विशेष स्नेह और लगाव है। उनके लिये बेहतर से बेहतर कैसे किया जाये। इसके प्रयास निरंतर कर रहे हैं। पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन द्वारा निरंतर आधुनिक सुविधा संपन्न मकान बनाये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने आंतरिक सुरक्षा और कानून व्यवस्था के लिये कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए वीरगति को प्राप्त करने वाले पुलिस के जवान को भी शहीद का सम्मान दिया है। उन्हें भी सेना के वंदनीय शहीदों के समान ही शासन से मान-सम्मान मिलेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था आंतकवादी गतिविधियों आदि को नियंत्रित करने में पुलिस की उपलब्धियां अनंत और गर्व का विषय है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने भी कटनी में बलात्कार के अपराधी को मात्र पांच दिन में सजा के मामले की जानकारी को प्रसारित करने के लिये कहा है। उन्होंने पुलिस को बधाई देते हुये कहा कि प्रकरण में पुलिस द्वारा की गयी त्वरित कार्रवाई, अनुसंधान और चालान प्रस्तुत करने के कार्य तत्परता और उत्कृष्टता के साथ किये इसी से अपराधी को शीघ्र दंड मिला है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस के आधुनिकीकरण के प्रयास निरंतर जारी हैं। प्रदेश में पल-पल की खबर रखने के लिये देश में संभवत: सर्वाधिक 11 हजार सी.सी.टी.व्ही. कैमरे लगाये हैं। आज सेफ सिटी मॉनीटरिंग एवं रिस्पॉस सेन्टर का भी लोकार्पण हुआ है। डॉयल-100 के मोबाईल एप, डॉयल-100 सेवा में जोड़े जा रहे। डॉयल-100 में मोटर साइकिल को भी शामिल किया गया है। ताकि जनता को आवश्यकतानुसार गलियों में भी पुलिस की सेवाएं प्राप्त हो सकें। कार्यक्रम के प्रारंभ में पुलिस महानिदेशक श्री ऋषिकुमार शुक्ला ने स्वागत उद्बोधन दिया पुलिस आधुनिकीकरण की स्थिति और आवश्यकताओं की जानकारी दी। आभार प्रदर्शन अतिरिक्त महानिदेशक विशेष सशस्त्र बल श्री विजय यादव ने किया।  

Dakhal News

Dakhal News 16 August 2018


मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नागरिकों के सक्रिय सहयोग और भागीदारी से समृद्ध मध्यप्रदेश का निर्माण होगा। उन्होंने नागरिकों से समृद्ध मध्यप्रदेश बनाने के लिये सुझाव माँगे। श्री चौहान ने कहा कि जनजातीय क्षेत्रों में हर गाँव में जनजातीय अधिकार सभा बनाई जायेगी। इस सभा को स्थानीय विकास और संसाधनों के उपयोग के संबंध में निर्णय लेने का अधिकार होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में निवेश करने वाली जो औद्योगिक इकाई रोजगार उपलब्ध करायेगी, उसे शासकीय रियायतों में प्राथमिकता दी जायेगी। श्री चौहान आज स्थानीय लाल परेड ग्राउंड पर राज्य स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने समारोह में परेड की सलामी ली। श्री चौहान ने उन सभी अमर शहीदों को श्रद्धांजलि दी, जिनके बलिदान से भारत को आजादी मिली। उन्होंने कहा कि अपना कर्तव्य निभाते हुए शहीद हुए जवानों के परिवारों को एक करोड़ रूपये की सम्मान निधि दी जायेगी। इसमें से 40 प्रतिशत राशि शहीदों के माता पिता के खातों में डाली जायेगी और बाकी शहीद के उत्तराधिकारी को दी जायेगी। माता-पिता को आजीवन पाँच हजार रूपये की पेंशन भी दी जायेगी। यदि शहीदों के बच्चे शहरों में पढ़ने आते हैं, तो उन्हें फ्लैट की सुविधा दी जायेगी। हर साल 14 अगस्त को प्रदेश में शहीद सम्मान दिवस मनाया जायेगा। श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में एक सशक्त और समृद्ध भारत का निर्माण हो रहा है। नये भारत का निर्माण करने के लिये नये मध्यप्रदेश का निर्माण करना जरूरी है। हम बीमारू राज्य से प्रगतिशील और अब विकसित राज्य की ओर बढ रहे हैं। अब समद्ध मध्यप्रदेश बनाना है। श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश हर क्षेत्र में आगे है। भरपूर बिजली है। भरपूर सिंचाई हो रही है। नर्मदा को गंभीर नदी से जोड़ा जा रहा है। इसके बाद पार्वती और कालीसिंध नदियों से जोड़ा जायेगा। श्री चौहान ने कहा कि किसानों की समृद्धि राज्य सरकार की पहली प्राथमिकता है। किसानों को कई राहतें दी गई हैं। उन्हें उनकी उपज का पूरा दाम दिया गया है। उन्होंने कहा कि किसानों को प्रति हेक्टेयर के हिसाब से सहायता देने पर भी विचार किया जाना चाहिये। प्रति व्यक्ति आय बढ़ी है, लेकिन इसे और बढ़ाने की आवश्यकता है। गरीबों को पक्का मकान बनाने के लिये पट्टे दिये जा रहे हैं। कोई गरीब बिना मकान और जमीन के नहीं रहेगा। बिजली बिल माफ किये जा रहे हैं। बच्चों की पढ़ाई का खर्चा सरकार उठायेगी। इस साल के आखिर तक सभी घरों में बिजली होगी। उन्होंने कहा कि शिक्षा कर्मी बनाने की संस्कृति को समाप्त कर अध्यापक का सम्मानजनक पद बनाया गया है। बैतूल जिले से 'एक परिसर-एक स्कूल' का प्रयोग शुरू किया जा रहा है, जिसमें एक ही स्कूल परिसर में पढ़ाई के सभी आधुनिक संसाधन उपलब्ध होंगे। आगामी 17 अगस्त को 'मिल-बाँचे मध्यप्रदेश'' का शुभारंभ हो रहा है। उन्होंने सभी सक्षम नागरिकों से अपील की कि वे अपनी पसंद के स्कूल में जायें और बच्चों को पढायें, शिक्षाप्रद कहानियाँ सुनायें और किताबें दान में दें। श्री चौहान ने कहा कि योजनाबद्ध तरीके से छोटे तालाबों के निर्माण के लिये ग्राम सरोवर अभिकरण बनाया जायेगा। यह  अभिकरण पाँच वर्षों में पाँच हजार तालाब निर्मित करेगा। उद्योगों के जरिए रोजगार में वृद्धि के लिये अब उद्योगों को टैक्स में छूट देने के बजाय निवेश में सीधे सहायता देने के लिये औद्योगिक नीति में बदलाव किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की आर्थिक स्थिति लगातार बेहतर बनी हुई है। हमारी विकास दर पिछले कई वर्षों में लगातार डबल डिजिट में रही है। यह  महत्वपूर्ण उपलब्धि है। गरीब परिवारों को सभी मूलभूत सुविधाएँ  जुटाने और गरीब परिवारों की आय बढ़ाने का काम किया जायेगा। गरीबों की चिंता दूर करेगी संबल योजना मुख्यमंत्री जन-कल्याण योजना 'संबल' की चर्चा करते हुए श्री चौहान ने कहा कि यह योजना प्रदेश की लगभग आधी आबादी की रोटी, कपड़ा, मकान, स्वास्थ्य, शिक्षा, बिजली, रोजगार जैसी मूलभूत चिंताओं को दूर करने का काम करेगी। एक जनवरी 2018 से ग्रामीण क्षेत्र में भू-खण्ड अधिकार अभियान में नौ लाख से अधिक परिवारों को भू-खण्ड अधिकार-पत्र दिए गए हैं। पहले वितरित भू-खण्ड अधिकार पत्रों को शामिल कर 35 लाख से अधिक परिवार को आवासीय भू-खण्ड मिल चुके हैं। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में 7 लाख से ज्यादा आवास बन गये हैं। सवा लाख आवासों का निर्माण पूरा हो गया है। ग्रामीण क्षेत्र के 94 प्रतिशत घरों में शौचालय सुविधा के साथ प्रदेश, देश के अग्रणी राज्यों में शामिल हो गया है। पंजीकृत श्रमिकों और संन्निर्माण कर्मकारों को अधिकतम 200 रूपये प्रति माह की दर से जुलाई माह से बिजली बिल देना प्रारंभ किया गया है। बिजली के क्षेत्र में आत्म-निर्भर होने के बाद अब लक्ष्य यह है कि हर नागरिक का घर बिजली से रोशन हो। सौभाग्य योजना के तहत 31 जिलों में सभी पात्र हितग्राहियों के घरों तक बिजली पहुँचाई जा चुकी है। अक्टूबर माह तक प्रदेश के हर घर में बिजली का प्रकाश लाने का हमारा लक्ष्य है। किसानों के खातों में जमा कराये 35 हजार करोड़ मुख्यमंत्री ने कहा कि खेती की आय को पाँच वर्षों में दोगुना करने के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिये सिंचाई का रकबा बढाया जा रहा है। अभी 40 लाख हेक्टेयर है। इसे बढाकर 80 लाख हेक्टेयर कर दिया जायेगा। इस वर्ष फसल बीमा, मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि, भावांतर भुगतान, प्राकृतिक आपदाओं से फसल क्षति और अन्य विभिन्न योजनाओं से किसानों के खातों में सीधे 35 हजार करोड़ रूपये की राशि पहुँचायी गयी है। कृषि के सहयोगी क्षेत्रों को भी भरपूर बढ़ावा दिया जा रहा है। नियमों में संशोधन करते हुए राहत राशि को 30 हजार रूपये प्रति हेक्टेयर कर दिया गया है। इस वर्ष केला फसल क्षति राहत 27 हजार से बढ़ाकर एक लाख रुपये प्रति हेक्टेयर और अधिकतम 3 लाख रुपये प्रति कृषक की गई है, जिससे बुरहानपुर के केला उत्पादक किसानों को आपदा की घड़ी में सरकार का संबल मिला। श्री चौहान ने कहा कि भूमि-स्वामी और बटाईदार के हितों का संरक्षण करने के लिए कानून बनाने वाला मध्यप्रदेश पहला राज्य है। अब भूमि-स्वामी निश्चिंत होकर अपनी भूमि पाँच वर्ष तक बटाई पर दे सकेगा। स्मार्ट सिटी परियोजना में निवेश होगा 20 हजार करोड़ श्री चौहान ने कहा कि स्मार्ट सिटी परियोजना में सात शहर भोपाल, इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन, सतना और सागर शामिल है। इन शहरों में पुनर्घनत्त्वीकरण और पुनर्निर्माण पर जोर दिया जा रहा है। इस परियोजना में 20 हजार करोड़ रूपये निवेश की योजना है। स्वच्छता सर्वेक्षण में पूरे देश में नगर निगम इंदौर प्रथम और नगर निगम भोपाल द्वितीय स्थान पर लगातार दूसरे वर्ष भी रहे हैं। अगले 3 वर्षों में प्रदेश का कोई भी नगरीय निकाय ऐसा नहीं होगा, जहाँ पेयजल परियोजना अधूरी हो अथवा पेयजल का संकट हो। मुख्यमंत्री ने बताया कि सड़कों के विकास में विशेष रूप से निवेश किया है। निरंतर विकास की प्रक्रिया आगे भी जारी है। सरकार 6,600 कि.मी. की सड़कों का निर्माण/उन्नयन और 3,200 कि.मी. सड़कों के नवीनीकरण का कार्य कर रही है। सभी संभागीय मुख्यालयों को फोर-लेन तथा सभी जिला मुख्यालयों को टू-लेन से जोड़ने का कार्य आने वाले समय में प्राथमिकता से पूरा किया जाएगा। इसके अतिरिक्त चंबल एक्सप्रेस-वे जैसी महत्त्वपूर्ण सड़क निर्माण परियोजनाओं पर जोर दिया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में आने वाले समय में एक भी गाँव ऐसा नहीं बचेगा, जो बारहमासी सड़कों से जुड़ा ना हो। आयुष्मान भारत योजना से लाभान्वित होंगे एक करोड़ 15 लाख परिवार प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा गरीबों के स्वास्थ्य के लिए शुरू की गई आयुष्मान भारत योजना की चर्चा करते हुए श्री चौहान ने कहा कि इस योजना के तहत प्रत्येक गरीब परिवार को पाँच लाख रुपये तक के नि:शुल्क इलाज की व्यवस्था  की गई है। योजना में राज्य के लगभग 75 लाख परिवारों को शामिल किया गया है। राज्य सरकार ने एक कदम आगे जाकर  22 अन्य श्रेणी के परिवारों को भी इस योजना में शामिल कर लिया है। इस कदम से आयुष्मान भारत योजना का लाभ प्रदेश के लगभग एक करोड़ 15 लाख परिवार ले सकेंगे। श्री चौहान ने कहा कि इस शिक्षा सत्र से दतिया, विदिशा, खण्डवा, रतलाम में नये मेडिकल कॉलेज शुरू कर एमबीबीएस पाठ्यक्रम में 500 सीट की वृद्धि की गई है। सिवनी और छतरपुर में नए मेडिकल कॉलेज की स्वीकृति प्रदान की गई है। इस प्रकार, आने वाले समय में शहडोल, शिवपुरी, सतना तथा छिंदवाड़ा सहित 6 नए मेडिकल कॉलेज प्रदेश में और कार्य करना प्रारंभ कर देंगे। 'एक परिसर-एक शाला'' मुख्यमंत्री ने कहा कि स्कूली शिक्षा में गुणवत्ता के सुधार के लिए “एक परिसर-एक शाला” की अवधारणा प्रारंभ की जा रही है। इसके तहत एक परिसर में चलने वाली सभी तरह की शालाओं का एकीकरण कर उन्हें एक ही विद्यालय के रूप में चलाया जाएगा। इससे शिक्षकों के साथ-साथ अन्य संसाधनों का बेहतर उपयोग हो पाएगा। उन्होंने बताया कि स्कूलों में शिक्षा कर्मी व्यवस्था को समाप्त करते हुए अध्यापक संवर्ग और संविदा शिक्षकों का शिक्षा एवं जनजातीय कल्याण विभाग में संविलियन किया गया है। महाविद्यालयों में काफी समय बाद नियमित प्राध्यापकों की नियुक्ति की प्रक्रिया प्रारम्भ कर दी गयी है। इस वर्ष से मुख्यमंत्री जन-कल्याण योजना में पंजीकृत श्रमिकों के पुत्र-पुत्रियों को भी इसी योजना का लाभ मिलेगा।  हर साल साढ़े सात लाख युवाओं का कौशल संवर्धन श्री चौहान ने कहा कि युवा सशक्तिकरण मिशन के तहत राज्य सरकार ने प्रति वर्ष साढ़े सात लाख युवाओं के कौशल संवर्धन का लक्ष्य रखा है। भोपाल में सिंगापुर के सहयोग से 645 करोड़ का विश्व-स्तरीय ग्लोबल स्किल पार्क स्थापित किया जा रहा है। युवाओं को रोजगार देने के लिए राज्य सरकार द्वारा बड़े पैमाने पर जिला मुख्यालयों पर रोजगार मेले लगाए गए, जिनमें लगभग सवा लाख युवाओं को नौकरियाँ प्रदान की गईं। राज्य शासन की स्व-रोजगार से जुड़ी योजनाओं के तहत लगभग एक लाख युवाओं को इसी महीने विशेष शिविर आयोजित कर पूरे प्रदेश में ऋण स्वीकृति-पत्र प्रदान किए गए हैं। एमएसएमई विकास नीति 2017 में विभिन्न अनुदान का एकीकरण कर इसे मध्यम, लघु तथा सूक्ष्म इकाईयों के लिए और आकर्षक बनाया गया है। प्रदेश में पिछले वर्ष दो लाख से अधिक एमएसएमई पंजीकृत हुईं हैं, जिसमें 1,400 करोड़ के निवेश के साथ 5 लाख लोगों को रोजगार मिला है। जनजातीय कल्याण पर खर्च होंगे दो लाख करोड़ मुख्यमंत्री ने बताया कि अगले 5 वर्षों में प्रदेश में जनजातीय कल्याण पर दो लाख करोड़ रुपए के कार्य किए जाएंगे, जिससे समस्त जनजातियों का सर्वांगीण विकास होगा। इस वर्ष 9 अगस्त को जनजातीय कल्याण की दिशा में एक नया कदम उठाते हुए अंर्तराष्ट्रीय आदिवासी दिवस को समारोह पूर्वक मनाया। अनुसूचित विकासखंडों के प्रत्येक ग्राम में जनजातीय अधिकार सभा का गठन होगा। विशेष रूप से पिछड़ी जनजातियों में कुपोषण की समस्या को देखते हुए प्रत्येक परिवार के बैंक खाते में एक हजार रुपये प्रति माह का पोषण अनुदान जमा किया जा रहा है। अनुसूचित जातियों का सर्वांगीण विकास सरकार की प्राथमिकता में है। प्रति वर्ष साढ़े 22 लाख से अधिक विद्यार्थियों को हम 732 करोड़ रूपये से अधिक राशि की छात्रवृति एवं शिष्यवृति दे रहे हैं। साथ ही इन वर्गों के आर्थिक विकास के लिये पिछले वर्ष मुख्यमंत्री स्व-रोजगार योजना, युवा उद्यमी योजना एवं आर्थिक कल्याण योजना के तहत 11 हजार हितग्राहियों को लगभग 362 करोड़ की आर्थिक सहायता दी गई है। महिलाओं की सुरक्षा श्री चौहान ने कहा कि बालिकाओं से दुष्कर्म या सामूहिक बलात्कार के अपराध को मृत्यु-दण्ड से दण्डनीय बनाने वाला कानून विधानसभा से पास करवाने वाला मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य है। ऐसे अपराधों के निराकरण के लिए 50 विशेष न्यायालय कार्यरत हैं। पिछले छ: माह में बालिकाओं से दुष्कर्म के आठ प्रकरणों में अपराधियों को मृत्यु-दण्ड की सजा दी गई है। श्री चौहान ने कहा कि इस वर्ष भी नर्मदा तथा अन्य नदियों के केचमेंट सहित पूरे प्रदेश में उच्च गुणवत्ता के 7 करोड़ पौधे लगाये जाने की योजना पर कार्य किया जा रहा है। नर्मदा नदी के संरक्षण को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार द्वारा 'नर्मदा सेवा मिशन' गठित किया गया है। नर्मदा तट के 19 नगरीय निकाय में 1300 करोड़ की सीवरेज योजनाएँ प्रगति पर हैं। वनोपज संग्राहकों के कल्याण के लिए इस वर्ष राज्य सरकार ने अनेक कदम उठाए हैं। तेंदूपत्ता संग्राहकों को 2000 रूपये प्रति मानक बोरा राशि दी जा रही है, जो पिछले वर्ष से 60 प्रतिशत अधिक है। पहली बार 22 लाख 35 हजार तेंदूपत्ता संग्राहकों को जूता-चप्पल, पानी की बोतल तथा महिला संग्राहकों को साड़ी प्रदाय की गई है। गठित होगा लोक कलाकार मण्डल राज्य सरकार कला एवं संस्कृति के संरक्षण के लिये राज्य सरकार की प्रतिबद्धता दोहराते हुए मुख्यमंत्री ने बताया कि ओंकारेश्वर में आदिगुरू शंकराचार्य की प्रतिमा स्थापित की जा रही है। आचार्य शंकर सांस्कृतिक एकता न्यास गठित किया गया है। कला एवं संस्कृति को सहेजने के लिये लोक कलाकार मण्डल गठित किया जा रहा है। पाँच नये हिन्दी सेवा सम्मान शुरू किये गये हैं। मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना का लाभ हजारों वरिष्ठ नागरिकों ने लिया है। प्रदेश की 'स्पोर्टस हब' के रूप में पहचान बन रही है। बीते डेढ़ दशक में खेल अधोसंरचनाओं का उल्लेखनीय विकास हुआ है। राष्ट्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर भी खिलाड़ी पदक जीत रहे हैं। राज्य शासन ने कर्मचारियों के कल्याण का पूरा ध्यान रखा है। कर्मचारियों और पेंशन-धारकों को सातवें वेतनमान का लाभ दिया गया है। उन्होंने कहा कि सुशासन के लिये समाधान एक दिन-तत्काल सेवा प्रदाय व्यवस्था में 34 सेवाओं को एक दिन में प्रदाय किया जा रहा है। सीएम हेल्प लाइन नागरिक केन्द्रित सेवा प्रदाय की पहल है। इसमें अब तक प्राप्त 95 प्रतिशत शिकायतों का निराकरण हो चुका है। प्रभावी अपराध नियंत्रण मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में कानून-व्यवस्था लगातार बेहतर रखने में सरकार सफल रही है। साम्प्रदायिक सौहार्द की दृष्टि से प्रदेश देश में मिसाल बना है। पिछले वर्षों में 161 नये पुलिस थाने तथा 111 नई पुलिस चौकियाँ स्थापित की गईं और 42 हजार 336 पदों पर भर्ती की गईं। महिलाओं के लिये 676 थानों में पृथक कक्ष के निर्माण की परियोजना में इस वर्ष 40 करोड़ का प्रावधान है। डॉयल-100 यजना से 50 लाख से भी अधिक पीड़ितों और जरूरतमंदों को मौके पर पुलिस सहायता मिली है। प्रदेश भर में संवेदनशील स्थानों पर 10 हजार सी.सी.टी.व्ही. कैमरे लगाकर अपराधों पर नियंत्रण की प्रभावी व्यवस्था करने वाला वाला मध्य प्रदेश पहला राज्य है।  

Dakhal News

Dakhal News 16 August 2018


मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश को बीमारू राज्य से विकासशील और फिर विकसित राज्य बनाने के बाद अब समृद्ध राज्य बनाएंगे। उन्होंने आज यहां मंत्रालय में वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों के साथ समृद्ध मध्यप्रदेश का विज़न साझा किया। श्री चौहान ने विकास के सभी प्रमुख क्षेत्रों में समृद्ध मध्यप्रदेश बनाने का रोडमैप तैयार करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि बिजली, पानी, सड़क और अधोसंरचना निर्माण जैसे बुनियादी क्षेत्रों का रोडमेप पहले ही तैयार है और इन क्षेत्रों में अच्छी प्रगति हुई है। कृषि क्षेत्र में अब उत्पादन की चुनौती लगभग खत्म हो गई है। अब उत्पादन की गुणवत्ता, खाद्य प्र-संस्करण,  निर्यात, और दोगुना आय बढ़ाने जैसे विषयों पर ध्यान देना होगा। अब दूसरे देशों को भी कृषि उपज निर्यात करने पर ध्यान देने की जरूरत है ताकि किसानों को ज्यादा फायदा हो। मुख्यमंत्री ने कहा कि रोज़गार सृजन एक बड़ा और चुनौतीपूर्ण काम है। जितनी संख्या में युवा शिक्षित हो रहे हैं उसी अनुपात में ज्यादा से ज्यादा संख्या में उन्हें रोज़गार के अवसर मिलना चाहिए। रोज़गार अवसरों के सृजन के लिए रचनात्मक तरीके से सोचना होगा। संबल योजना के संबंध में अपना विजन बताते करते हुए श्री चौहान ने कहा कि संसाधनों पर गरीबों का अधिकार है और उन्हें मिलना चाहिये। यह सबकी साझा जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि महिलाओं के स्व-सहायता समूहों को बढ़ावा देकर गरीबी पर नियंत्रण किया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने सभी वरिष्ठ अधिकारियों से कहा कि अब तक मध्यप्रदेश के निर्माण में जो हुआ है वह अभूतपूर्व है और इसके अच्छे परिणाम सामने हैं। अब एक कदम आगे बढ़ाते हुए समृद्ध मध्यप्रदेश बनाने का सपना साकार करना है। उन्होंने कहा कि अधिकारी अपनी प्रतिभा और अनुभव का उपयोग करते हुए समृद्ध मध्यप्रदेश बनाने का रोडमैप बनाये। सिर्फ अपने विभाग की योजनाओं तक सीमित न रहें। एक सम्पूर्ण सोच प्रस्तुत करें। उन्होंने यह भी कहा कि विभागीय बजट पर निर्भर रहकर काम करने की पारंपरिक सोच को छोड़कर रचनात्मक प्रयासों से आय के अतिरिक्त स्त्रोत और संसाधन निर्मित कर आगे बढ़ें। बजट से ज्यादा रचनात्मक दृष्टि और प्रतिबद्धता काम करती है। बैठक में वित्त मंत्री श्री जयंत मलैया, मुख्य सचिव श्री बी. पी. सिंह, अपर मुख्य सचिव और सभी विभागों के प्रमुख सचिव उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 8 August 2018


umashankr gupta

  मैनिट चौराहा में 15 लाख की लागत से हाकर्स कार्नर बनया जायेगा। राजस्व, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री  उमाशंकर गुप्ता ने हाकर्स कार्नर का भूमि-पूजन किया। श्री गुप्ता ने कहा कि हाकर्स कार्नर में उन्हीं को दुकान दें, जो दुकान चलायें। एक भी दुकान बद नहीं रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि टॉयलेट भी बनवायें। श्री गुप्ता ने कहा कि इमानदारी से दुकान चलायेंगे तो ग्राहकी अच्छी चलेगी। इस दौरान स्थानीय जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 8 August 2018


आनंदीबेन पटेल

राज्यपाल  पटेल ने सैनिकों के लिए रवाना किया राखियों का रक्षा रथ एमपी की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने भारत रक्षा पर्व पर सीमा पर तैनात सैनिकों के लिये मध्यप्रदेश की बहनों की ओर से राखी ले जा रहे रक्षा रथ को आज राजभवन से झंडी दिखाकर रवाना किया। राज्यपाल ने कहा कि मैं बहादुर सैनिकों को सैल्यूट करती हूँ। उनके कारण ही आज हमारे देश की सीमाएं सुरक्षित हैं। रक्षा रथ में नवदुनिया समाचार पत्र द्वारा बहनों से संग्रहित राखियाँ सीमा पर तैनात सैनिकों को भेजी गईं हैं। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि देश के स्वतंत्रता संग्राम में समाचार पत्रों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। हर कठिन परिस्थिति में जनता और नेताओं का मार्गदर्शन किया है, सजग प्रहरी की भूमिका का निर्वहन किया है। आजादी के बाद भी देश के विकास में समाचार पत्रों के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता। राज्यपाल ने कहा कि हमारी सेना ने विश्व की बड़ी सेनाओं में अपनी प्रतिष्ठा स्थापित की है। आतंकवाद, नक्सलवाद और पड़ोसी देशों से घुसपैठ तथा अकारण गोलाबारी के बावजूद हमारे सैनिकों के हौसले बुलंद हैं। वो दुश्मनों को करारा जवाब दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने सेना की 40 साल पुरानी मांग को पूरा कर उनका हक अदा किया है। राज्यपाल ने कहा कि रक्षाबंधन भाई को बहन की रक्षा करने का संकल्प याद दिलाता है। सीमा पर तैनात सैनिक भी हमारे भाई हैं। रक्षाबंधन के दिन हजारों, लाखों सैनिक सीमा पर तैनात रहने के कारण अपनी बहनों से राखी नहीं बंधवा पाते। उन्होंने कहा कि देश की सभी बहनों द्वारा राखी भेजने से उनके हौसले बुलंद होंगे। इस अवसर पर नवदुनिया के संपादक श्री सुरेश गौड़, स्टेट उप संपादक श्री ऋषि पांडे, विश्वविद्यालय के चांसलर श्री संजीव अग्रवाल और छात्र-छात्राएँ उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 4 August 2018


आनंदीबेन पटेल

राज्यपाल  पटेल ने सैनिकों के लिए रवाना किया राखियों का रक्षा रथ एमपी की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने भारत रक्षा पर्व पर सीमा पर तैनात सैनिकों के लिये मध्यप्रदेश की बहनों की ओर से राखी ले जा रहे रक्षा रथ को आज राजभवन से झंडी दिखाकर रवाना किया। राज्यपाल ने कहा कि मैं बहादुर सैनिकों को सैल्यूट करती हूँ। उनके कारण ही आज हमारे देश की सीमाएं सुरक्षित हैं। रक्षा रथ में नवदुनिया समाचार पत्र द्वारा बहनों से संग्रहित राखियाँ सीमा पर तैनात सैनिकों को भेजी गईं हैं। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि देश के स्वतंत्रता संग्राम में समाचार पत्रों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। हर कठिन परिस्थिति में जनता और नेताओं का मार्गदर्शन किया है, सजग प्रहरी की भूमिका का निर्वहन किया है। आजादी के बाद भी देश के विकास में समाचार पत्रों के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता। राज्यपाल ने कहा कि हमारी सेना ने विश्व की बड़ी सेनाओं में अपनी प्रतिष्ठा स्थापित की है। आतंकवाद, नक्सलवाद और पड़ोसी देशों से घुसपैठ तथा अकारण गोलाबारी के बावजूद हमारे सैनिकों के हौसले बुलंद हैं। वो दुश्मनों को करारा जवाब दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने सेना की 40 साल पुरानी मांग को पूरा कर उनका हक अदा किया है। राज्यपाल ने कहा कि रक्षाबंधन भाई को बहन की रक्षा करने का संकल्प याद दिलाता है। सीमा पर तैनात सैनिक भी हमारे भाई हैं। रक्षाबंधन के दिन हजारों, लाखों सैनिक सीमा पर तैनात रहने के कारण अपनी बहनों से राखी नहीं बंधवा पाते। उन्होंने कहा कि देश की सभी बहनों द्वारा राखी भेजने से उनके हौसले बुलंद होंगे। इस अवसर पर नवदुनिया के संपादक श्री सुरेश गौड़, स्टेट उप संपादक श्री ऋषि पांडे, विश्वविद्यालय के चांसलर श्री संजीव अग्रवाल और छात्र-छात्राएँ उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 4 August 2018


icp kesri

    मध्यप्रदेश शासन ने संबल योजना और म.प्र. भवन एवं अन्य संन्निर्माण कर्मकार कल्याण मंडल पोर्टल पर पंजीकृत कर्मकारों के विरुद्ध जून 2018 तक दर्ज घरेलू बिजली संबंधी न्यायालयीन प्रकरणों में अभियोजन वापस लेने का निर्णय लिया है। राज्य शासन के अनुरोध पर म.प्र. उच्च न्यायालय ने इन प्रकरणों के निराकरण के लिये विशेष लोक अदालतों के आयोजन की अनुमति दे दी है। प्रमुख सचिव ऊर्जा  आई.सी.पी. केशरी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि श्रमिकों और कर्मकारों के विरुद्ध विशेष न्यायालयों में वर्तमान में विद्युत अधिनियम-2003 की धारा 135 और 138 के लगभग 20 हजार प्रकरण प्रचलन में है। उच्च न्यायालय की अनुमति के बाद अब इन प्रकरणों के निराकरण के लिये शीघ्र ही विशेष लोक अदालतें लगायी जायेंगी। उल्लेखनीय है कि राज्य शासन द्वारा पंजीकृत श्रमिकों और कर्मकारों के जून 2018 तक के घरेलू संयोजन पर बिजली बिल की समस्त बकाया राशि माफ कर दी गई है। यह कार्यवाही मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम-2018 में की गई है। इसके अतिरिक्त, इन हितग्राहियों को जुलाई 2018 के बिल से घरेलू संयोजन पर अधिकतम 200 रुपये प्रति माह के बिजली बिल की सुविधा दी गई है। इस सुविधा के अन्तर्गत हितग्राहियों के बिजली बिल की शेष राशि राज्य शासन द्वारा वहन की जा रही है।

Dakhal News

Dakhal News 4 August 2018


 एमपी में मेट्रो रूट के आसपास बनेंगी हाईराइज बिल्डिंग

  मध्यप्रदेश के शहरों में ट्रांजिट ओरिएंटेड डेवलपमेंट नीति के तहत मेट्रो रेल और बीआरटी कॉरीडोर के दोनों ओर करीब आधा किमी क्षेत्र में अब बहुमंजिला इमारतें बनेंगी। इसके लिए नगरीय विकास विभाग द्वारा कैबिनेट में प्रस्तुत ट्रांजिट ओरिएंटेड डेवलपमेंट (टीओडी) नीति को मंजूरी दे दी। इससे टीओटी क्षेत्र में अब सरकार जमीन के मिश्रित उपयोग को बढ़ावा देगी। इसमें आवासीय, वाणिज्यिक, सार्वजनिक, अर्द्ध सार्वजनिक और मनोरंजन क्षेत्र शामिल होंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में ट्रांजिट ओरिएंटेड डेवलपमेंट नीति का अनुमोदन करने की नगरीय विकास एवं आवास मंत्री माया सिंह ने पुष्टि की। उन्होंने  बताया  कि टीओडी पॉलिसी से भोपाल और इंदौर में मेट्रो रूट के ईद-गिर्द हाईराइज बिल्डिंग बन सकेंगी। बताया जा रहा है कि मेट्रो परियोजना का काम शुरू करने के लिए इस नीति को लागू करना जरूरी था। जनसंपर्क मंत्री डॉ.नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि कैबिनेट ने प्याज और लहसुन के पौने दो लाख से ज्यादा किसानों को 800 करोड़ रुपए प्रोत्साहन राशि देने की मंजूरी दी गई। किशोरी बालिका योजना अब पूरे प्रदेश में लागू होगी।

Dakhal News

Dakhal News 31 July 2018


शिवराज सिंह

एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को आज नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने मध्यप्रदेश को नगरीय विकास में नवाचारों के लिये मिले राष्ट्रीय पुरस्कार सौंपे। ये पुरस्कार विगत 27-28 जुलाई को लखनऊ में आयोजित राष्ट्रीय नगरीय विकास कार्यशाला में मध्यप्रदेश को भारत सरकार द्वारा प्रदान किये गये हैं। इस अवसर पर महापौर  आलोक शर्मा, मुख्य सचिव  बसंत प्रताप सिंह,प्रमुख सचिव नगरीय विकास एवं आवास  विवेक अग्रवाल, भोपाल निगमायुक्त  अविनाश लवानिया, मुख्य कार्यपालन अधिकारी स्मार्ट सिटी  संजय कुमार भी मौजूद थे। उल्लेखनीय है कि विगत 28 जुलाई को प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने भोपाल स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में इन्टीग्रेटेड कमांड कंट्रोल सेन्टर के लिये भोपाल के महापौर श्री आलोक शर्मा और अमृत योजना में बाँड जारी करने के नवाचार के लिये इंदौर महापौर श्रीमती मालिनी लक्ष्मण गौड़ को राष्ट्रीय पुरस्कारों से अलंकृत किया था। इसके पूर्व 27 जुलाई को कार्यशाला में केन्द्रीय शहरी विकास, आवासीय एवं शहरी गरीबी उन्मूलन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री हरदीप सिंह पुरी ने मध्यप्रदेश को नगरीय विकास के क्षेत्र में नवाचारों के लिये चार राष्ट्रीय पुरस्कारों से सम्मानित किया था। ये पुरस्कार भोपाल के स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में पब्लिक बाइक शेयरिंग, बी-नेस्ट इंक्यूबेशन सेंटर और जबलपुर स्मार्ट सिटी के एनडीएमसी के स्मार्ट क्लॉस-रूम एवं वेस्ट टू एनर्जी प्लांट के लिये प्रदान किये गये।  

Dakhal News

Dakhal News 31 July 2018


shivraj singh

शुद्ध पेयजल के लिये 36 हजार घरों में नल कनेक्शन दिया जायेगा मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज पन्ना जिले के पवई एवं शाहनगर विकासखण्ड के 158 ग्रामों के लिये शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिये 211.32 करोड़ की लागत से ग्रामीण समूह जल प्रदाय योजना का शिलान्यास किया। इस योजना के अंतर्गत लगभग 36 हजार घरों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध हो सकेगा। इस अवसर पर श्री चौहान ने अमहा लघु सिंचाई नहर विस्तारीकरण योजना का भी शिलान्यास किया। इस अवसर पर जिले की प्रभारी राज्य मंत्री श्रीमती ललिता यादव, सांसद श्री नागेन्द्र सिंह, बुंदेलखण्ड विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री रामकृष्ण कुसमरिया और अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 26 July 2018


विजयाराजे सिंधिया

  सरोजिनी नायडू कन्या महाविद्यालय के सामने बने महिला हॉकर्स कॉर्नर का नाम राजमाता विजयाराजे सिंधिया महिला हॉकर्स कॉर्नर होगा। राजस्व, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता और महापौर श्री आलोक शर्मा ने हॉकर्स कॉर्नर का निरीक्षण किया। उन्होंने जल्द इसे शुरू करवाने के निर्देश दिये। श्री गुप्ता ने नेहरू नगर स्थित बापू नगर की झुग्गियों के सुनियोजित व्यवस्थापन की कार्य-योजना बनाने के निर्देश दिये। उन्होंने हाट-बाजार के लिये स्थल निरीक्षण भी किया। इस मौके पर स्थानीय जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 26 July 2018


maya singh

    स्मार्ट सिटी परियोजना में चयनित प्रदेश के 7 शहर में 1610 करोड़ की लागत के 60 प्रोजेक्ट पूर्ण किए जा चुके हैं। वर्तमान में 2498 करोड़ के 139 प्रोजेक्ट प्रगति पर है। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने सभी प्रोजेक्ट निर्धारित गुणवत्ता के साथ समय-सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं। मंत्री श्रीमती माया सिंह ने कहा कि देश के चुनिंदा शहरों में क्षेत्र आधारित विकास और पेन सिटी योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। इसी कड़ी में प्रदेश के सात शहर इंदौर, भोपाल, जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन, सागर और सतना का चयन तीन चरण में स्मार्ट सिटी के रूप में किया गया है। इन शहरों में 5 वर्षों में लगभग 20 हजार करोड़ के कार्य करवाया जाना प्रस्तावित है, जिन पर तेजी से कार्य किया जा रहा है। श्रीमती सिंह ने बताया कि प्रथम चरण-2015 में तीन शहर भोपाल, इंदौर और जबलपुर का चयन किया गया। इन शहरों में इंदौर में 96.91 करोड़ की लागत के 28 प्रोजेक्ट पूर्ण किए जा चुके हैं तथा 455.43 करोड़ रूपये के 46 प्रोजेक्ट प्रगति पर है। भोपाल स्मार्ट सिटी में 1207 करोड़ रूपये के 16 प्रोजेक्ट पूर्ण किए जा चुके हैं तथा 478 करोड़ के 22 प्रोजेक्ट प्रगति पर है। स्मार्ट सिटी जबलपुर में 287 करोड़ लागत के 11 प्रोजेक्ट पूर्ण किए जा चुके हैं तथा 377 करोड़ रूपये लागत के 30 प्रोजेक्ट प्रगति पर है। द्वितीय चरण-2016 में उज्जैन और ग्वालियर का चयन किया गया है। इनमें उज्जैन स्मार्ट सिटी में 19 करोड़ रूपये के 5 प्रोजेक्ट पूर्ण किए जा चुके हैं तथा 155 करोड़ की लागत के 17 प्रोजेक्ट प्रगति पर है। स्मार्ट सिटी ग्वालियर में 530 करोड़ की लागत के 21 प्रोजेक्ट प्रगति पर है, जो समय-सीमा में पूर्ण कर लिये जायेंगे। तृत्तीय चरण-2017 में सागर और सतना शहर का चयन किया गया है। स्मार्ट सिटी सागर में 1735 करोड़ के 27 प्रोजेक्ट तैयार किए गए हैं, इनमें 46 करोड़ के 2 कार्य प्रगति पर है। इसी क्रम में स्मार्ट सिटी सतना में 1438 करोड़ की लागत के 27 प्रोजेक्ट तैयार किए गए हैं। इनमें 51 लाख रूपये की लागत के एक प्रोजेक्ट पर कार्य प्रारंभ किया जा चुका है। शेष कार्य शीध्र प्रारंभ किए जायेंगे।  

Dakhal News

Dakhal News 26 July 2018


 विदिशा मेडिकल कॉलेज

मुख्यमंत्री द्वारा विदिशा जिले में 170 करोड़ के कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज विदिशा में हुए किसान सम्मेलन में घोषणा की कि आगामी अगस्त माह से विदिशा में मेडिकल कॉलेज शुरू किया जायेगा। इससे विदिशा तथा आसपास की जनता को गंभीर बीमारियों के लिये भी समुचित उपचार आसानी से मिल सकेगा। श्री चौहान ने एक लाख 33 हजार किसानों के बैंक खातों में फसल बीमा योजना की 445 करोड़ की बीमा राशि ऑनलाईन ट्रांसफर की। मुख्यमंत्री ने विदिशा जिले में 170 करोड़ रूपये लागत के निर्माण कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया। श्री चौहान ने कहा कि इस वर्ष किसानों से गेहूँ की खरीदी समर्थन मूल्य को जोड़कर 2 हजार रूपये क्विंटल के मान से की जा रही है। इसके अलावा चना, उड़द और मूंग आदि फसलों की खरीदी भी राज्य सरकार कर रही है, ताकि किसान को उसकी कृषि उपज का लाभकारी मूल्य आसानी से मिल सके। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की मंशा है कि खेती को हर हाल में लाभकारी व्यवसाय बनाया जाये। उन्होंने बताया कि प्रदेश के किसानों के बैंक खातों में गत एक साल के दौरान 33 हजार करोड़ रुपये से अधिक की राशि विभिन्न योजनाओं में जमा करवाई गई है। श्री चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश का सोयाबीन चीन को निर्यात करने के प्रयास किये जा रहे हैं। इसके लिये उच्च स्तर पर चर्चा चल रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि संबल योजना समाज के हर गरीब व्यक्ति के जीवन को खुशहाल बनाने के लिये क्रियान्वित की जा रही है। योजना में पंजीकृत असंगठित श्रमिकों तथा अन्य पात्र जरूरतमंद के 44 करोड़ से भी अधिक राशि के बकाया बिजली बिल माफ कर दिये गये हैं। उन्होंने बताया कि योजना में जो असंगठित श्रमिक और अन्य पात्र लोग अभी तक पंजीयन नहीं करा पाये हैं, उनके पंजीयन के लिये व्यवस्था की जा रही है। सम्मेलन में सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, उद्यानिकी राज्य मंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा, विधायक श्री कल्याण सिंह ठाकुर और श्री वीर सिंह पंवार, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी, नगर पालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टंडन, को-ऑपरेटिव बैंक के अध्यक्ष श्री श्याम सुंदर शर्मा, अन्य जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में विभिन्न वर्गों के लोग मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विदिशा में वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप की प्रतिमा का अनावरण किया। स्थानीय दुर्गा नगर चौराहे पर नगर पालिका द्वारा यह प्रतिमा स्थापित की गई है। अनावरण कार्यक्रम में लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह और सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव भी उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 25 July 2018


इनकम टैक्स

 मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा है कि नागरिकों का नैतिक कर्तव्य है कि कमजोर वर्गों के कल्याण और देश के विकास में आयकर देकर अपना अधिक से अधिक योगदान दें। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ के करदाताओं की सख्या में वृद्धि पूरे देश में करदाताओं की वृद्धि के औसत से अधिक है। इस विशाल कर संग्रहण का श्रेय कर प्रशासन के साथ-साथ देश के ईमानदार करदाताओं को भी जाता है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार इनकम टैक्स की प्रक्रिया को और सरल बना रही है, जिससे आम लोगों तथा सरकार को फायदा होगा। राज्यपाल ने यह बात आज आयकर दिवस के अवसर आयोजित समारोह में कही। उन्होंने इस अवसर पर वृद्ध आयकरदाताओं और आयकर इन्वेस्टिगेशन तथा वसूली में उत्कृष्ट योगदान देने वाले अधिकारियों को शाल-श्रीफल भेंट कर सम्मानित किया। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि हमारा देश विश्व में अर्थ-व्यवस्था के हिसाब से ब्रिटेन को पछाड़कर छठवें स्थान पर आ गया है। हाल ही में फोर्ब्स पत्रिका के मुताबिक पहली बार भारत सकल घरेलू उत्पाद के मामले में ब्रिटेन से आगे निकला है और अमेरिका, चीन, जापान, जर्मनी तथा फ्रांस के साथ प्रतिस्पर्धा में है। राज्यपाल ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ की गई कार्रवाई और जीएसटी प्रणाली लागू होने के बाद देश में रिकार्ड संख्या में लोग टैक्स देने के लिए आगे आ रहे हैं । ये बदले हुए वातावरण का प्रमाण है। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि जब से बेनामी संपत्ति का कानून सदन में पारित हुआ है, तब से अब तक चार से साढ़े चार हजार करोड़ की संपत्ति जब्त कर ली गई है। इसलिए आयकर विभाग की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि वित्त वर्ष 2017-18 में केन्द्र सरकार का आयकर का कुल संग्रहण दस लाख करोड़ रूपये से अधिक था, जो एक ऐतिहासिक उपलब्धि थी। राज्यपाल ने इस अवसर पर आयकर विभाग की सालाना पुस्तक और आयकर प्रतिविंब पत्रिका का विमोचन किया तथा आयकर से संबंधित विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लेने वाले छात्र-छात्राओं को सम्मानित भी किया। प्रिंसिपल चीफ कमिश्नर आयकर श्री प्रसन्न कुमार दाश ने आयकर विभाग की गतिविधियों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि करदाताओं में अपने कर्तव्य और दायित्व के प्रति जागरूकता आ रही है। उन्होंने कहा कि करदाता होना गर्व की बात है। आयकर से ही देश शक्तिशाली बनेगा। सरकार सभी से थोड़ा-थोड़ा लेकर विभिन्न निर्माण कार्यों पर खर्च करती है। इस अवसर पर मुख्य आयकर आयुक्त इंदौर श्री अजय चौहान ने आभार व्यक्त किया।  

Dakhal News

Dakhal News 25 July 2018


उमाशंकर गुप्ता

भोपाल में राजस्व, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री  उमाशंकर गुप्ता ने विद्यार्थियों से कहा है कि आप सिर्फ परिश्रम करें, संसाधन जुटाने का कार्य सरकार करेगी। श्री गुप्ता ने शासकीय महाविद्यालयीन अनुसूचित जनजाति बालक छात्रावास भदभदा रोड़ के प्रवेश उत्सव में यह बात कही। ज्ञातव्य है कि पूरे प्रदेश में आज छात्रावास प्रवेश उत्सव मनाया जा रहा है। श्री गुप्ता ने देवास में गरीब परिवार के छात्र के एम्‍स में एम.बी.बी.एस. में चयन का उदाहरण देते हुए कहा कि ज्ञान पर किसी वर्ग विशेष का अधिकार नहीं होता। पूरे मन से सही दिशा में परिश्रम करें, सफलता जरूर मिलेगी। उन्होंने बताया कि हॉस्टल में जगह नहीं मिले, तो किराये का मकान लें। किराया सरकार भरेगी। अच्छी नौकरी के लिये कोचिंग भी करवायी जायेगी। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री श्री गुप्ता ने कहा कि छात्रावास में कौशल विकास की कक्षाएँ भी लगायी जायें। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों की इच्छानुसार खाली समय में उन्हें कौशल विकास की ट्रेनिंग दिलवायें। श्री गुप्ता ने कहा कि मात्र मार्कशीट के आधार पर नौकरी मिलना मुश्किल है। हुनरमंद बनेंगे, तो रोजगार की समस्या नहीं होगी। श्री गुप्ता ने कहा कि छात्रावास में वर्ष में एक दिन मेरी तरफ से भोजन करवाया जाये। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को कोई समस्या हो, तो मुझे बता सकते हैं। श्री गुप्ता ने छात्रावास परिसर में आम और अमरूद के पौधें लगाये। इस मौके पर स्थानीय जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे। राजस्व मंत्री द्वारा चन्द्रशेखर आजाद की प्रतिमा पर माल्यार्पण राजस्व, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री  उमाशंकर गुप्ता ने अमर शहीद चन्द्रशेखर आजाद की जयंती पर न्यू-मार्केट और गीतांजलि चौराहा में उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। उन्होंने कहा कि इन शहीदों के कारण ही हमें स्वतंत्रता मिली है। राजस्व मंत्री श्री गुप्ता ने खेल मैदान कोटरा में पौध-रोपण किया। उन्होंने स्थानीय रहवासियों से कहा कि पौधों के वृक्ष बनने तक उनकी सुरक्षा करें। इस दौरान स्थानीय जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 23 July 2018


anandi ben

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने रविवार को जबलपुर में आयोजित मध्यक्षेत्रीय गुजराती बाजखेड़ाबाल समाज की स्थापना के रजत जयंती समोराह में कहा कि युवाओं को भारतीय संस्कृति, सभ्यता और परम्पराओं के प्रति जागरूक किया जाये। उन्होंने गुजराती समाज की विकास में भागीदारी और गुजरात राज्य की समृद्धि का जिक्र करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू किये गये जन-कल्याणकारी कार्यक्रमों को सफल बनाने में सम्पूर्ण समाज अपनी भागीदारी सुनिश्चित करे। राज्यपाल ने इस मौके पर गुजराती समाज की स्मारिका का विमोचन किया और विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाले सक्षम व्यक्तियों को सम्मानित किया। समारोह की अध्यक्षता गुजरात सरकार के संस्कृत बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष श्री गौतम पटेल ने की। महामण्डलेश्वर स्वामी अखिलेश्वरानंद और जबलपुर नगर निगम की महापौर डॉ. स्वाति गोड़बोले भी रजत जयंती समारोह में शामिल हुए।

Dakhal News

Dakhal News 23 July 2018


anandi ben

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने रविवार को जबलपुर में आयोजित मध्यक्षेत्रीय गुजराती बाजखेड़ाबाल समाज की स्थापना के रजत जयंती समोराह में कहा कि युवाओं को भारतीय संस्कृति, सभ्यता और परम्पराओं के प्रति जागरूक किया जाये। उन्होंने गुजराती समाज की विकास में भागीदारी और गुजरात राज्य की समृद्धि का जिक्र करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू किये गये जन-कल्याणकारी कार्यक्रमों को सफल बनाने में सम्पूर्ण समाज अपनी भागीदारी सुनिश्चित करे। राज्यपाल ने इस मौके पर गुजराती समाज की स्मारिका का विमोचन किया और विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाले सक्षम व्यक्तियों को सम्मानित किया। समारोह की अध्यक्षता गुजरात सरकार के संस्कृत बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष श्री गौतम पटेल ने की। महामण्डलेश्वर स्वामी अखिलेश्वरानंद और जबलपुर नगर निगम की महापौर डॉ. स्वाति गोड़बोले भी रजत जयंती समारोह में शामिल हुए।

Dakhal News

Dakhal News 23 July 2018


satna

    मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आने वाले कुछ साल में सतना के स्वरूप को बदलकर अत्याधुनिक रूप दिया जाएगा। सतना को आगे बढ़ाने और विकास के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी। मुख्यमंत्री ने यह बात बी.टी.आई. मैदान, सतना में मेडिकल कॉलेज और नल-जल योजनाओं के शिलान्यास समारोह में कही। मेडिकल कॉलेज और 750 बिस्तरीय अस्पताल भवन की लागत 287 करोड़ 75 लाख है। मुख्यमंत्री ने तीन नल-जल योजनाओं का शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि सतना के विकास में मेडिकल कॉलेज मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने कहा कि जो विद्यार्थी 75 प्रतिशत अंक लायेंगे, मेडिकल कॉलेज में प्रवेश मिलने पर उनकी फीस सरकार भरेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि मेडिकल कॉलेज सह 750 बिस्तरीय अस्पताल में चौबीस घंटे इमरजेंसी सेवाएँ मिलेंगी। इसमें 10 आपरेशन थियेटर होंगे। यहाँ 100 व्यक्तियों के ठहरने के लिए धर्मशाला भी बनाई जाएगी। सतना के औधोगिक विकास पर पौने 17 करोड़ खर्च होंगे मुख्यमंत्री ने कहा कि सतना के औद्योगिक विकास के लिए 16 करोड़ 74 लाख की राशि खर्च की जाएगी। उन्होंने कहा कि आने वाले चार साल में गरीबों को झुग्गी-झोपड़ी से मुक्ति दिलाकर उन्हें पक्के मकान बनाकर दिए जायेंगे। श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार गरीबों के जीवन में उजाला लाने का प्रयास कर रही है। गरीबों के बिजली के बिलों की भरपाई राज्य सरकार करेगी और उनको हर माह 200 रूपये फ्लैट रेट पर बिजली देगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने पहले मध्यप्रदेश को बीमारू राज्य से विकासशील राज्य बनाया, उसके बाद विकसित राज्य बनाया और अब मध्यप्रदेश को समृद्ध राज्य बनाना चाहते हैं। मुख्यमंत्री ने लोकतंत्र सेनानियों एवं मीसाबंदियों का सम्मान किया। सांसद श्री गणेश सिंह और अन्य जन-प्रतिनिधियों ने संबोधित किया। कार्यक्रम में राज्यसभा सदस्य श्री प्रभात झा, विधायक श्री शंकरलाल तिवारी, महापौर श्रीमती ममता पाण्डेय, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती सुधा सिंह सहित अन्य जन-प्रतिनिधि और नागरिक उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 20 July 2018


आनंदीबेन  पटेल

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने आज खरगोन में केन्द्र सरकार की योजना से लाभान्वित हितग्राहियों से मुलाकात कर चर्चा की। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने मुद्रा योजना से लाभान्वित हुई महिलाओं से जाना कि मुद्रा योजना की कैसे जानकारी मिली और ऋण राशि किस तरह से मिली। राज्यपाल ने लाभान्वित हितग्राहियों से यह भी जाना कि उन्होंने अपने व्यवसाय से कितने लोगों को रोजगार उपलब्ध करवाया है। राज्यपाल श्रीमती पटेल को जिले के जैतापुर की संगीता ने बताया कि उन्हें मुद्रा योजना की जानकारी टेलीविजन से पता लगी थी। बैंक में सम्पर्क करने के बाद उन्हें मुद्रा योजना में 50 हजार की राशि मंजूर हुई। आज वे इस राशि से सिलाई केन्द्र चला रही हैं और इस केन्द्र के माध्यम से 3 परिवारों को रोजगार दे रही है। राज्यपाल ने योजना से लाभान्वित गजेन्द्र गुप्ता, रानी, सुभद्रा, लीलाबाई, अनिल और शिवराम से भी चर्चा की। राज्यपाल ने उज्जवला, सौभाग्य और प्रधानमंत्री आवास योजना से लाभान्वित हितग्राहियों से भी चर्चा की। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने रसोई गैस सिलेण्डर मिलने की व्यवस्था के बारे में भी जानकारी ली। हितग्राहियों ने बताया कि लकड़ी की तुलना में रसोई गैस की टंकी सस्ती है। लकड़ी जलाने से होने वाले दुष्प्रभाव से भी उन्हें छुटकारा मिला है। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने आज सेगाँव विकासखण्ड के ग्राम ऊन में आँगनवाड़ी, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र और बालक छात्रावास का निरीक्षण किया। राज्यपाल ने आँगनवाड़ी के बच्चों को फल वितरित किये। उन्होंने गर्भवती माताओं से चर्चा कर आँगनवाड़ी व्यवस्था के बारे में जानकारी ली। राज्यपाल ने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में मरीजों से स्वास्थ्य की जानकारी ली। बालक छात्रावास पहुँचने पर स्कूल के छात्रों ने राज्यपाल का स्वागत किया। उन्होंने बच्चों को फल भी वितरित किये।  

Dakhal News

Dakhal News 20 July 2018


मध्यप्रदेश के विदिशा, खंडवा और रतलाम मेडिकल कॉलेज को मान्यता

    मध्यप्रदेश सरकार को आखिरकार इसी सत्र से तीन और मेडिकल कॉलेज में शैक्षणिक सत्र शुरू करने में कामयाबी मिल गई। विदिशा, खंडवा और रतलाम मेडिकल कॉलेज को मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (एमसीआई) से मान्यता मिल गई। इससे प्रदेश में एमबीबीएस की सीटों की संख्या 800 से बढ़कर 13 सौ हो जाएगी। इसी साल दतिया मेडिकल कॉलेज भी शुरू हुआ है। इसकी सूचना चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने कैबिनेट को दी। केंद्र सरकार ने प्रदेश में सात मेडिकल कॉलेज बनाने को मंजूरी दी थी। एमसीआई ने छिंदवाड़ा, शिवपुरी और शहडोल को मान्यता देने के लिए दौरा ही नहीं किया। दतिया मेडिकल कॉलेज को न सिर्फ मान्यता मिल चुकी है, बल्कि इसके भवन का लोकार्पण भी हो गया है। वहीं, विदिशा, खंडवा और रतलाम मेडिकल कॉलेज का एमसीआई की टीम ने दो बार दौरा भी किया पर छुट-पुट खामियोें के चलते मान्यता नहीं दी। इसको लेकर चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने एमसीआई के सामने बार-बार प्रस्तुतिकरण दिया पर जब बात नहीं बनी तो सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। कोर्ट के निर्देश पर एमसीआई की टीम फिर से दौरा करने पर सहमत हो गई और अंतत: प्रदेश के इन तीनों कॉलेजों को मान्यता देने की सिफारिश केंद्र सरकार से कर दी। जनसंपर्क मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि पिछले दिनों मुख्यमंत्री दिल्ली गए थे और प्रदेश के इन तीन मेडिकल कॉलेजों को मान्यता देने का विषय उठाया था। इन मेडिकल कॉलेजों में छात्रों को प्रवेश इसी सत्र से मिलेगा। नए मेडिकल कॉलेजों के खुलने से एमबीबीएस की सीटें 800 से बढ़कर 13 सौ हो जाएंगी।  

Dakhal News

Dakhal News 17 July 2018


दीपाली रस्तोगी

  मध्यप्रदेश में अपने विचारों और कार्यशैली की वजह से पिछले कुछ दिनों से चर्चा में आईं आदिवासी कार्य विभाग की आयुक्त दीपाली रस्तोगी ने प्रदेश के सभी कलेक्टर्स को विकास यात्राओं और सम्मेलन में खर्च को लेकर एक और आदेश जारी किया है। रस्तोगी ने आदेश में कहा है कि प्रदेश में निकल रही विकास यात्राओं और अन्य सम्मेलन के लिए विभिन्न योजनाओं के तहत आवंटित बजट में से पैसा खर्च न किया जाए। उन्होंने कहा कि इन विकास यात्राओं के लिए अलग से राशि जारी की गई है। यदि अन्य योजनाओं का पैसा इन सम्मेलन के आयोजन में लगाया जाता है तो इसे गंभीर वित्तीय अनियमितता माना जाएगा और संबंधित अधिकारी के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी। रस्तोगी ने कहा कि विभिन्न योजनाओं के लिए आवंटित बजट का उपयोग विकास यात्राओं के लिए किसी भी परिस्थिति में न किया जाए। दीपाली रस्तोगी ने यह आदेश पिछले महीने 23 जून को सभी कलेक्टर्स को दिया था। गौरतलब है कि इससे पहले दीपाली रस्तोगी ने आदेश दिया था कि धार्मिक राजनीतिक आयोजनों में आदिवासी बच्चों को भीड़ बढ़ाने के लिए शामिल न कराया जाए। उनका यह आदेश भी सियासी हल्कों में काफी चर्चित रहा था।

Dakhal News

Dakhal News 17 July 2018


pm shivraj singh

  एमपी के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि शासकीय कर्मचारी प्रशासन का दिल, अंतर्रात्मा और दोनों हाथ हैं। सरकार द्वारा कर्मचारियों के हितों के लिये निरंतर कार्य किये गये हैं। मध्यप्रदेश सरकार ने कर्मचारियों को अपने परिवार की तरह ही समझा है। भविष्य में भी निरंतर कर्मचारियों के कल्याण के कार्य किये जायेंगे। शासकीय कर्मचारी और सरकार मिलकर प्रदेश को समृद्ध और विकसित बनायेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान शनिवार को उज्जैन में प्रदेश के शासकीय कर्मचारियों के विभिन्न संगठनों द्वारा सम्मान एवं आभार कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। प्रदेश के शासकीय कर्मचारियों के विभिन्न 45 संगठनों द्वारा मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान का शासकीय कर्मचारियों को सातवाँ वेतनमान दिये जाने, केन्द्रीय कर्मचारियों के समान महँगाई भत्ता, अध्यापक संवर्ग को शिक्षा विभाग में सम्मिलित करने तथा सेवानिवृत्ति की उम्र 62 वर्ष किये जाने पर आभार व्यक्त किया है। मध्यप्रदेश शासकीय तृतीय वर्ग कर्मचारी संगठन के अध्यक्ष श्री रमेशचन्द्र शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सभी वर्गों का समान रूप से ध्यान रखा है और उनके हितों की रक्षा की है। मुख्यमंत्री द्वारा आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के लिये भी कारगर कदम उठाये गये हैं

Dakhal News

Dakhal News 16 July 2018


कांकेर bsf

रविवार तड़के बीएसएफ की टीम और नक्सलियों के बीच कांकेर माहला के जंगल में हुई मुठभेड़ में दो जवान शहीद हो गए। घटना में तीन जवान घायल हो गए, जिन्हें इलाज के लिए हेलिकॉप्टर से रायपुर रेफर किया गया है। नक्सली इलाके में रुक-रुककर फायरिंग कर रहे हैं। शहीद जवानों के नाम लोकेंद्र सिंह(राजस्थान), मुख्तेयार सिंह(पंजाब) हैं। जानकारी के मुताबिक बीएसएफ की 175 बटालियन के जवान प्रतापपुर थाना इलाके के माहला जंगल में सर्चिंग पर निकले थे। इसी दौरान वहां छिपे नक्सलियों ने फायरिंग कर दी। घटना में दो बीएसएफ जवान शहीद हो गए। बताया जा रहा है कि जवाबी फायरिंग में नक्सलियों को भी गोली लगी है। मुठभेड़ के बाद सुरक्षाबलों ने इलाके में सर्चिंग तेज कर दी है।

Dakhal News

Dakhal News 15 July 2018


तनिष्क आनंद ने स्पेशल ओलंपिक भारत में जीता रजत पदक

मध्य प्रदेश के खिलाड़ियों ने 9 गोल्ड सहित 23 पदक झटके यूं तो बातें बहुत होती है मगर कुछ खास बच्चे एसा कर जाते है जो इन खास बच्चों को और खास बना देते हैं। एसा ही कुछ खास हुआ है भारत स्पेशल ओलम्पिक गांधी नगर में जहां तनिष्क आनंद जैसे ही 20 खिलाड़ीयों ने 9 गोल्ड, 9 सिल्वर और 5 कांस्य पदक जीतकर मध्य प्रदेश का नाम रोशन किया है। गुजरात के गांधीनगर में 5 से 9 जुलाई तक चली राष्ट्रीय प्रतियोगिता में मध्य प्रदेश से 20 विशेष खिलाड़ियों ने भाग लिया था। जिसमें एमपी की टीम ने 9 गोल्ड सहित 23 पदक जीते हैं। भोपाल के तनिष्क आनंद ने टेबल टैनिस में रजत पदक जीता है। यह खेल आगामी साल में होने वाली अंतरराष्ट्रीय स्पेशल ओलम्पिक प्रतियोगिता आबूधावी में जाने का टिकट मानी जाते हैं और इन्ही खिलाड़ियों में से ही देश की टीम तैयार होती है। गांधी नगर में भोपाल का परचम लहराने के बाद मंगलवार को भोपाल लौटी टीम को रेलवे स्टेशन पर भव्य स्वागत हुआ। इन खिलाड़ियों का स्वागत करने पहुंचे जनप्रतिनिधि, कोच, पूर्व खिलाड़ी और परिजन भाव विभोर थे। टीम मेनेजर एहताशाम उद्दीन, कोच प्रतिभा, इकराम, प्रभात, रामसेवक, संदीप, रुचिका एवं मीनाक्षी को टीम की उपलब्धि पर लोगों ने बधाई दी।  

Dakhal News

Dakhal News 10 July 2018


cm shivraj singh

  मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि संबल योजना प्रदेश में गरीबों का संबल बन गयी है। यह जन-आंदोलन का रूप ले चुकी है। इस योजना के अंतर्गत गरीबों के लिये मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी योजना और सरल बिजली बिल योजना वरदान सिद्ध हो रही है। मुख्यमंत्री ने बताया कि 11 जुलाई को सभी जिलों में बिजली बिल माफी प्रमाण पत्र देने और नये हितग्राहियों का पंजीयन कराने के लिये जिला स्तरीय कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा। मुख्य कार्यक्रम रतलाम जिले के जावरा में आयोजित होगा। श्री चौहान ने कहा कि वे स्वयं जावरा से पूरे प्रदेश के हितग्राहियों को संबोधित करेंगे। उनका संबोधन दोपहर तीन बजे से सभी जिलों में सुना जा सकेगा। श्री चौहान आज अपने निवास से सभी संभागायुक्तों और जिला कलेक्टरों से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि 11 जुलाई के बाद बिजली बिल माफी और पंजीयन की प्रक्रिया लगातार चलती रहेगी। उन्होंने कहा कि इसके बाद जहाँ-जहाँ ट्रांसफार्मर कटे हैं, वे सब एक साथ जोड़ दिये जायेंगे और एक दिन प्रकाश पर्व मनाया जायेगा। श्री चौहान ने जिला कलेक्टरों और जन-प्रतिनिधियों से कहा कि 11 जुलाई को जिलों में कार्यक्रमों का आयोजन करें और बिजली बिल माफ करने तथा पंजीयन कराने के संबंध में जो भी कठिनाईयां आती हैं, उनका तत्काल समाधान भी करें। श्री चौहान ने कहा कि 11 जुलाई को जिला स्तरीय कार्यक्रम आयोजित करने के बाद स्थानीय जन-प्रतिनिधि सुविधानुसार विधानसभावार भी बिजली बिल माफी के कार्यक्रम आयोजित कर सकते हैं। विद्युत सब स्टेशनों पर भी विद्युत अधोसंरचना और निर्माण से संबंधित कामों का लोकार्पण किया जायेगा। उन्होंने कलेक्टरों से कहा कि इस योजना को अपने-अपने जिलों में नेतृत्व प्रदान करें और प्रभावी तरीके से इसका क्रियान्वयन सुनिश्चित करें ताकि गरीबों को योजना का ज्यादा से ज्यादा फायदा मिल सके। स्थानीय कार्यक्रमों में सांसद, जन-प्रतिनिधि, नगरीय पंचायत के प्रतिनिधि शामिल हों और गरीब हितग्राहियों को योजना का लाभ दिलवायें।इस कार्य में जिला प्रशासन के साथ जन-प्रतिनिधियों का समन्वय आवश्यक है। इसके लिये पहले से प्लानिंग कर लें। बरसात को देखते हुए पर्याप्त इंतजाम रखें। श्री चौहान ने कहा कि संबल योजना, बकाया बिजली बिल माफी योजना और सरल बिजली बिल योजना गरीबों के सिर से अनावश्यक आर्थिक बोझ उतारने वाली योजनायें हैं। ये गरीबी से लड़ने का सहारा देने वाली योजनाएं हैं। कोई भी पात्र गरीब परिवार इस योजना का लाभ लेने से वंचित नहीं रहना चाहिये। श्री चौहान ने कहा कि वे संबल योजना और बकाया बिजली बिल माफी योजना की निरंतर समीक्षा करेंगे और हर दिन कम से कम चार जिला कलेक्टरों से बात करेंगे। श्री चौहान ने बताया कि भवन संनिर्माण कर्मकार कल्याण मंडल में पंजीबद्ध श्रमिकों का भी स्वाभाविक रूप से संबल योजना में पंजीयन मान्य किया जायेगा। उन्होंने विद्युत वितरण कम्पनियों के फील्ड अमले की सराहना करते हुये कहा कि मैदानी अधिकारी पूरी मेहनत से काम कर रहे हैं। इस अवसर पर राजस्व मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, स्थानीय जन-प्रतिनिधि प्रमुख सचिव ऊर्जा श्री आई.सी.पी. केशरी, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्री अशोक वर्णवाल, श्री विवेक अग्रवाल एवं वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।    

Dakhal News

Dakhal News 10 July 2018


शिवराज ने घंटा बजाकर जारी किये इंदौर नगर निगम के बॉण्ड

शहरी विकास के लिये बॉण्ड जारी करने वाला राज्य का प्रथम और देश का तृतीय नगर निगम बना इंदौर   मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान 5 जुलाई को सुबह 9 बजे मुम्बई में स्टॉक एक्सचेंज में घंटा बजाकर इंदौर नगर निगम के बॉण्ड दर्ज करवाया । इंदौर नगर निगम ने शहरी विकास की गतिविधियों में नागरिकों की आर्थिक भागीदारी सुनिश्चित करने के लिये अभी हाल ही में 28 जून को 170 करोड़ रुपये के बॉण्ड जारी किये हैं। इंदौर नगर निगम इस तरह के बॉण्ड जारी करने वाला राज्य का प्रथम और देश का तीसरा नगर निगम बन गया है। भारत सरकार की अमृत योजना के माध्यम से इंदौर शहर में नगर निगम ने जल-वितरण, सीवरेज और शहरी परिवहन सुविधाओं को विकसित करने के लिये बॉण्ड जारी किये हैं। इसमें भारत सरकार का 324.05 करोड़, राज्य सरकार का 486.18 करोड़ और नगर निगम का 162.08 करोड़ रुपये अंशदान निर्धारित किया गया है। निवेश आमंत्रित करने वरिष्ठ उद्योगपतियों से मिले मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज अपने मुम्बई प्रवास के दौरान सीआईआई द्वारा आयोजित कार्यक्रम में भाग लिया। श्री चौहान ने इस दौरान प्रदेश में निवेश के संदर्भ में विभिन्न देशों के वाणिज्यिक दूतों और उद्योग जगत के वरिष्ठ उद्योगपतियों से मुलाकात की और विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की। मुख्यमंत्री मुख्य रूप से आस्ट्रेलिया, कनाडा, इण्डोनेशिया, जापान, सिंगापुर, कोरिया और रशिया के वाणिज्यिक दूतों से मिले और उन्हें प्रदेश की विकास यात्रा के बारे में जानकारी दी। श्री चौहान ने बताया कि आज की तारीख में मध्यप्रदेश सभी क्षेत्रों में निवेश के लिये एक आदर्श राज्य बन चुका है। उन्होंने निवेशकों को आगामी 23-24 फरवरी, 2019 को मध्यप्रदेश की औद्योगिक नगरी इंदौर में आयोजित की जा रही ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में मित्र देश के रूप में आने का न्यौता भी दिया। मुख्यमंत्री को सिंगापुर के वाणिज्यिक दूत श्री अजीत सिंह ने मध्यप्रदेश में निवेश के लिये किये जा रहे प्रयासों के लिये बधाई देते हुए कहा कि राज्य शासन द्वारा दी जा रही सुविधाएँ हमें आकर्षित करती हैं। उन्होंने आश्वस्त किया कि हम सिंगापुर से विशिष्ट क्षेत्र के विकास के लिये निवेशक लायेंगे। आस्ट्रेलिया के वाणिज्यिक दूत श्री टोनी उबर ने भी मुख्यमंत्री के प्रयासों को सराहा। ब्रिटिश डिप्टी हाई कमीशन के श्री बेन ग्रीन ने भी मध्यप्रदेश में शिक्षा और बैंकिंग के क्षेत्र में निवेश के मामले में रुचि जताई। कनाडा के वाणिज्यिक दूत ने प्रदेश में जल-संचयन के क्षेत्र में रुचि दिखाई और मुख्यमंत्री का निमंत्रण स्वीकार करते हुए कहा कि वे शीघ्र ही मध्यप्रदेश आयेंगे। इण्डोनेशिया के वाणिज्यिक दूत ने उनके देश में आगामी 24 से 28 अक्टूबर तक आयोजित ट्रेड एक्सपो में भारतीय प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया, जिसे मुख्यमंत्री ने सहर्ष स्वीकार किया। मुख्यमंत्री ने समस्त वाणिज्यिक दूतों को सीआईआई के कार्यक्रम में शामिल होने पर धन्यवाद दिया। इस अवसर पर प्रमुख सचिव उद्योग श्री मोहम्मद सुलेमान और मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव श्री एस.के. मिश्रा भी मौजूद थे।  

Dakhal News

Dakhal News 5 July 2018


राज्यपाल पटेल ने जैविक खेती के लिये किसानों को प्रेरित किया

राज्यपाल से मिले गुजरात राज्य से आये किसानों के दल  एमपी की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल से आज राजभवन में गुजरात राज्य से आये किसानों के दल ने सौजन्य भेंट की और खेती के नये-नये तरीकों के बारे में अपने अनुभव साझा किये। श्रीमती पटेल ने किसानों को जैविक खेती के लिये प्रेरित करते हुए कहा कि खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिये यह सशक्त माध्यम है। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने किसानों के लिये महत्वपूर्ण योजनाएँ लागू की हैं। उन्होंने किसानों से योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ प्राप्त करने का अनुरोध करते हुए कहा कि सरकार सहायता कर सकती है, मार्गदर्शन प्रदान कर सकती है, लेकिन योजनाओं का लाभ लेने के लिये किसानों को स्वयं आगे आना होगा। राज्यपाल ने मध्यप्रदेश में किसानों और सरकार के संयुक्त प्रयासों की सराहना करते हुए बताया कि राज्य को विगत 5 वर्ष से निरंतर राष्ट्रीय स्तर पर कृषि कर्मण अवार्ड से विभूषित किया जा रहा है। राज्यपाल ने किसानों से कहा कि अपने बच्चों को खेती से जुड़े कुटीर उद्योग स्थापित करने के लिये प्रेरित करें। सरकार की मुद्रा बैंक योजना का उल्लेख करते हुए उन्होंने बताया कि इस योजना में खेती से जुड़े कुटीर उद्योग स्थापित करने के लिये समुचित आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाई जाती है। श्रीमती पटेल ने किसानों को सलाह दी कि खेतों और बगीचों को जानवरों से होने वाले नुकसान से बचाने के लिये आसपास बागड़ जरूर लगायें। श्रीमती पटेल ने कहा कि खेतों की उर्वरा शक्ति बनाये रखने के लिये जैविक खाद, पानी और अन्य आधुनिक संसाधनों का उपयोग आवश्यक है। उन्होंने फलों की खेती को किसानों के लिये लाभदायक बताते हुए कहा कि सीताफल, अमरूद, चीकू जैसे फलों का उपयोग आइस्क्रीम तथा अन्य उत्पाद बनाने में किया जाता है। इसकी खेती से किसान एक निश्चित अतिरिक्त आय प्राप्त कर सकते हैं। राज्यपाल श्रीमती पटेल से मिलने आये किसान भोपाल स्थित सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग में प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। राज्यपाल से मुलाकात के समय आत्मा प्रोजेक्ट गाँधी नगर और राजभवन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 5 July 2018


shivraj singh

हरियाली महोत्सव पर प्रदेशवासियों के नाम संदेश मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मनुष्य का जीवन पर्यावरण में संतुलन पर निर्भर है। जीवन की हरियाली को बचाने के लिये पौधों को लगाना और उनकी रक्षा कर पेड़ बनाना आज की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री चौहान ने यह बातें हरियाली महोत्सव के तहत प्रदेशवासियों के नाम जारी अपने संदेश में कही हैं। श्री चौहान ने कहा है कि राज्य सरकार ने गत वर्ष नर्मदा सेवा यात्रा के दौरान जन-सहयोग से व्यापक स्तर पर पौध-रोपण किया गया। इस वर्ष भी 15 जुलाई से नर्मदा सहित अन्य नदियों के कैचमेंट एरिया में पौध-रोपण किया जाएगा। उन्होंने विश्वास जताया है कि वानिकी विकास योजनाओं से जहाँ एक ओर हरियाली का विस्तार होगा, वहीं दूसरी ओर ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के नये अवसर भी निर्मित होंगे। श्री चौहान ने प्रदेश के प्रत्येक नागरिक से एक पौधा लगाने का संकल्प लेने की अपील की है। उन्होंने आशा व्यक्त की है कि हरियाली महोत्सव पौध-रोपण के साथ पौधों की सुरक्षा के प्रति जागरूकता लाने में अवश्य सफल होगा। प्रदेश में जन-सामान्य में हरियाली के संरक्षण के प्रति जागरूकता लाने के लिये हरियाली महोत्सव मनाया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हरियाली महोत्सव की सफलता के लिये प्रदेश के नागरिकों को हार्दिक शुभकामनाएँ दी हैं।

Dakhal News

Dakhal News 4 July 2018


शिवराज ने किया बीना में सिंचाई परियोजना का भूमिपूजन

  90 हजार हेक्टेयर रकबे को मिलेगा फायदा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बीना नदी संयुक्त सिंचाई परियोजना का भूमिपूजन किया। 3750 करोड़ की लागत की इस परियोजना से 90 हजार हेक्टेयर रकबे में सिंचाई हो सकेगी। सागर के खुरई के नवीन कृषि मण्डी प्रांगण में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बीना नदी संयुक्त सिंचाई परियोजना का भूमिपूजन किया। इस दौरान प्रदेश के पंचायत मंत्री गोपाल भार्गव, जल संसाधन, गृह एवं परिवहन मंत्री भूपेन्द्र सिंह मौजूद भी मौजूद थे। कार्यक्रम में संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश के हिस्से का एक-एक बूंद पानी प्रदेश को ही मिलेगा। 10 लाख हैक्टेयर की सिंचाई योजना बुंदेलखंड में चल रही है। बीना नदी संयुक्त सिंचाई परियोजना के अंतर्गत बीना नदी पर मडिया बांध एवं चकरपुर बांध का निर्माण प्रस्तावित है। यह करीब 3750 करोड़ रुपये की लागत से बनेगीं। इससे 90 हजार हेक्टेयर में सिंचाई होगी । इसका लाभ सागर जिल की बीना एखुरई और सुरखी विधानसभा क्षेत्र के करीब 400 गांवों को लाभ मिलेगा। और इससे 21 मेगावाट बिजली का उत्पादन भी प्रस्तावित है । उन्होंने ये भी कहा कि गरीबी हटाने के लिए सरकार एक फॉर्मूले पर काम कर रही है। इसके तहत अमीरों से टैक्स वसूला जाएगा और और इस राशि का उपयोजन गरीबों को योजनाओं पर खर्च की जाएगी। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के बाद अब मुख्यमंत्री अंत्योदय योजना के तहत गरीबों के लिए 40 लाख मकान बनाए जाएंगे। सीएम ने कहा कि 3 जुलाई से शिविर लगाकर सरकार द्वारा गरीबों के बिजली के बिल भरे जाएंगे। गरीबों के यहां बिजली के मीटर नहीं लगेंगे, उनसे 200 रुपया महीना बिल लिया जाएगा। सीएम ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि प्रदेश में कांग्रेस हल्ला कर रही है कि किसान नाराज हैं। लेकिन वास्तविकता ये नहीं है। अकेले सागर जिले में पिछले एक साल में 1150 करोड़ रुपए किसानों के खाते में जमा कराए गए। मंदसौर में मासूम बच्ची से दुष्कर्म की घटना को लेकर देशभर में गुस्से का माहौल है। इसे लेकर पूरे प्रदेश में लगातार विरोध प्रदर्शन चल रहे हैं। इस घटना को लेकर सीएम ने कहा कि वे मंदसौर सामूहिक दुष्कर्म को अंजाम देने वाले दरिंदो को फांसी दिलाने के लिए वे सुप्रीम कोर्ट चीफ जस्टिस और हाईकोर्ट को पत्र लिखेंगे।  

Dakhal News

Dakhal News 2 July 2018


एमपी के मंत्रालय पार्क में हुआ सामूहिक वंदे-मातरम गायन

सामान्य प्रशासन एवं नर्मदा घाटी विकास राज्यमंत्री श्री लाल सिंह आर्य की उपस्थिति में  आज राष्ट्रगीत वंदे-मातरम का सामूहिक गायन मंत्रालय स्थित सरदार वल्लभ भाई पटेल पार्क में संपन्न हुआ। इस अवसर पर पुलिस बैंड ने मधुर धुनें प्रस्तुत की। वंदे-मातरम गायन में अपर मुख्य सचिव सामान्य प्रशासन श्री प्रभांशु कमल, प्रमुख सचिव महिला बाल विकास श्री जे.एन. कसोंटिया, प्रमुख सचिव कृषि डॉ. राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव जनजातीय कार्य विभाग श्री एस.एन. मिश्रा, प्रमुख सचिव गृह श्री मलय श्रीवास्तव, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्री अशोक वर्णवाल, प्रमुख सचिव सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उदयम विभाग श्री बी.एल. कांताराव, प्रमुख सचिव खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति श्रीमती नीलम शमी राव, प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा श्रीमती दीप्ति गौड़ मुखर्जी तथा प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्री हरिरंजन राव सहित  मंत्रालय, सतपुड़ा एवं  विंध्याचल भवन के अधिकारी तथा कर्मचारी उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 2 July 2018


शिवराज- विराट हॉस्पिस में कैंसर पीड़ितों की सेवा देख अभिभूत हुए

    मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने जबलपुर में भेड़ाघाट के समीप विराट हॉस्पिस में कैंसर पीड़ित मरीजों की नि:स्वार्थ भाव से की जा रही सेवा को अनुकरणीय बताते हुए इस तरह के प्रकल्पों को गैर-सरकारी संगठनों के सहयोग से प्रदेश के अन्य स्थानों पर भी प्रारंभ करने की मंशा व्यक्त की है। श्री चौहान आज सुबह जबलपुर में वरिष्ठ पत्रकार श्री संजय सिन्हा के साथ ब्रह्मर्षि मिशन समिति द्वारा संचालित विराट हॉस्पिस पहुँचे थे। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर विराट हॉस्पिस में इलाज और देख-रेख के लिए भर्ती सभी 24 कैंसर रोगियों से भेंट कर उनकी कुशल क्षेम जानी। मुख्यमंत्री ने कैंसर से जीवन की जंग लड़ रहे इन मरीजों का गुलाब का फूल भेंटकर हौसला भी बढ़ाया। विराट हॉस्पिस में कैंसर से पीड़ित मरीजों की सेवा से अभिभूत मुख्यमंत्री ने संस्थान की संचालक और ब्रह्मर्षि मिशन समिति की प्रमुख साध्वी ज्ञानेश्वरी दीदी से भेंट की और आशीर्वाद लिया। श्री चौहान ने गंभीर और असाध्य माने जाने वाले कैंसर रोगियों की यहां की जा रही सेवा के कार्य को अद्भुत एवं अतुलनीय बताया। उन्होंने कहा कि इस तरह के प्रकल्पों को प्रदेश के अन्य स्थानों पर प्रारंभ करने के लिए ब्रह्मर्षि मिशन समिति के सहयोग से एवं साध्वी ज्ञानेश्वरी दीदी के मार्गदर्शन में कार्य-योजना तैयार की जायेगी। मुख्यमंत्री को बताया गया कि पिछले पाँच वर्षों में करीब 900 से अधिक कैंसर रोगियों की इस संस्थान में सेवा की जा चुकी है। संस्थान में आने वाले अधिकांश ऐसे कैंसर रोगी गरीब परिवारों के होते हैं। इन मरीजों को संस्थान में नि:शुल्क इलाज के साथ आध्यात्मिक वातावरण भी उपलब्ध करवाया जाता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विराट हॉस्पिस के सेवा कार्यों को देखते हुए इसे शासन द्वारा प्रारंभ किये गये आनंदम विभाग की गतिविधियों से जोड़ने की बात भी कही। मुख्यमंत्री ने ब्रह्मर्षि मिशन समिति के सेवा के एक और प्रकल्प ग्वारीघाट में गरीब परिवारों के बच्चों के लिए संचालित शाला के मेधावी बच्चों से भी भेंट की। उन्होंने इन बच्चों को प्रशस्ति-पत्र प्रदान करते हुए खूब मेहनत करने और आगे की पढ़ाई की चिंता सरकार पर छोड़ने की बात कही। उन्होंने कहा कि गरीब परिवारों के इन बच्चों की उच्च शिक्षा का खर्च शासन उठाएगा। मुख्यमंत्री ने विराट हॉस्पिस में गुणवत्तापूर्ण विद्युत की आपूर्ति के लिए ट्रांसफार्मर स्थापित करने तथा संस्थान तक पहुँच मार्ग के निर्माण के निर्देश भी अधिकारियों को दिये। विराट हॉस्पिस आने पर साध्वी ज्ञानेश्वरी दीदी द्वारा मुख्यमंत्री का शाल और श्रीफल भेंटकर सम्मान भी किया गया। इस अवसर पर विधायक श्रीमती प्रतिभा सिंह, समाजसेवी श्री नरेश ग्रोवर, श्री सांवलदास, श्री कमल ग्रोवर, वरिष्ठ पत्रकार श्री रवीन्द्र वाजपेई और नगर पंचायत के पूर्व अध्यक्ष अनिल तिवारी भी मौजूद थे । पूर्व विधानसभा अध्यक्ष स्व. रोहाणी की प्रतिमा पर माल्यार्पण : महिलाओं को सिलाई मशीनें वितरित मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने जबलपुर प्रवास के दूसरे दिन आज पूर्व विधानसभा अध्यक्ष स्व. श्री ईश्वरदास रोहाणी के जन्म दिवस पर सर्किट हाउस के समीप स्थित उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रृद्धा सुमन अर्पित किये। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में केंट विधानसभा क्षेत्र के मेधावी बच्चों का सम्मान किया तथा गरीब परिवारों की महिलाओं को सिलाई मशीनें एवं दिव्यांगों को ट्राइसिकल दी। कार्यक्रम में चिकित्सा शिक्षा राज्य मंत्री श्री शरद जैन, समाजसेवी डॉ. जीतेन्द्र जामदार, विधायक श्री अशोक रोहाणी और श्री विजय रोहाणी मौजूद थे।

Dakhal News

Dakhal News 2 July 2018


चना, मसूर और सरसों

मध्यप्रदेश में चना, मसूर एवं सरसों का उपार्जन 10 अप्रैल से 9 जून तक किया गया था। उपार्जन का कार्य प्रदेश की अधिसूचित मंडियों में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर किया गया। राज्य शासन ने उपार्जन के लम्बित प्रकरणों का आगामी 10 जुलाई 2018 तक निराकरण कराने के निर्देश जारी किये हैं। समर्थन मूल्य पर खरीदी के दौरान ऐसे पंजीकृत किसान जिन्हें टोकन जारी हुए किन्तु उपार्जित मात्रा पोर्टल पर दर्ज नहीं हो सकी। ऐसे पंजीकृत किसान जिन्हें ऑफलाइन टोकन जारी कर उनकी उपज का तौल किया गया लेकिन तौल की मात्रा पोर्टल पर दर्ज नहीं हो सकी है। इस तरह के लम्बित प्रकरण की सुनवायी अब संभागायुक्त कर सकेंगे। इस संबंध में किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग ने आदेश जारी किये है। जारी आदेश में कहा गया कि ऐसे पंजीकृत किसान जिन्होंने 9 जून के पहले चना,मसूर और सरसों की तुलाई तो करवा ली थी, लेकिन उपार्जन की मात्रा तकनीकी खामियों की वजह से अपलोड नहीं हो सकीं थी। इन सब प्रकरणों की सुनवायी अब संभागायुक्त करेंगे। समस्त संभागायुक्तों को खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग द्वारा आई डी पासवर्ड दे दिये गये हैं। इसके साथ ही, इस संबंध में प्रदेश के सभी कलेक्टर्स को भी निर्देश दिये गये हैं। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने इस संबंध में शुक्रवार को संभागायुक्तों और पुलिस महानिरीक्षकों की विडियो कांन्फ्रेंस में यह निर्देश दिये है।  

Dakhal News

Dakhal News 30 June 2018


 शिवराज बोले -अवैध खनन के वाहन राजसात करें

मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने संभागायुक्तों और पुलिस महानिरीक्षकों को दिये निर्देश  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि गरीब को उसका जायज़ हक़ मिले। इसके लिये सरकार द्वारा व्यापक स्तर पर प्रयास किये गये हैं। योजनाओं का क्रियान्वयन इस तड़प के साथ किया जाये कि कोई भी पात्र व्यक्ति इनके लाभ से वंचित नहीं रहे। क्रियान्वयन पंचायत स्तर तक प्रशासनिक कसावट के साथ हो। इसकी नियमित मॉनीटरिंग की जाये। लापरवाही के प्रकरणों में कठोर कार्रवाई की जाये। श्री चौहान ने अवैध खनन के प्रकरणों में वाहन नीलामी की कार्रवाई करने और महिलाओं पर होने वाले अपराधों को रोकने के लिये प्रभावी रणनीति बनाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि आगामी पर्वों और मौसम को दृष्टिगत रखते हुए अग्रिम कार्य-योजना बनायें। श्री चौहान आज मंत्रालय में संभागायुक्तों और पुलिस महानिरीक्षकों की संयुक्त बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक में मुख्य सचिव श्री बी.पी. सिंह और पुलिस महानिदेशक श्री आर.के. शुक्ला भी मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि संबल योजना गरीबी दूर करने का सबसे प्रभावी प्रयास है। योजना का लाभ हर जरूरतमंद को मिले, इसकेलिये सजगता और सक्रियता के साथ योजना की मॉनीटरिंग की जाये। उन्होंने कहा कि योजना के क्रियान्वयन कार्य की वे स्वयं प्रतिदिन समीक्षा करेंगे। योजना का सीएम डैशबोर्ड बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गरीब की आवश्यकताओं को पूरा करना ही गरीबी दूर करने का सबसे प्रभावी तरीका है। संबल योजना का क्रियान्वयन व्यापक स्तर पर करने के लिये जरूरी है कि आम आदमी योजना को भलीभांति समझें। इसके लिये व्यापक स्तर पर सभी प्रचार माध्यमों का उपयोग किया जाये। इसमें कोई कोर-कसर बाकी नहीं रहनी चाहिये। मुख्यमंत्री ने फ्लेट रेट विद्युत और बकाया बिल समाधान योजना की समीक्षा की। उन्होंने विद्युत कनेक्शन के नामांतरण कार्य के लिये स्टाम्प शुल्क की बाध्यता को समाप्त करवाने केलिये कहा। मुख्यमंत्री ने कहा कि संबल निगरानी समिति के सदस्यों को योजना के एम्बेसडर के रूप में स्थापित किया जाये। विद्युत बिल पंजीयन शिविरों में और मास्टर ट्रेनर के प्रशिक्षण कार्यक्रम में समिति सदस्यों को शामिल किया जाये। उन्होंने कहा कि इस वर्ष उच्च शिक्षा पाठ्यक्रमों में प्रवेश लेने वाले द्वितीय और अंतिम वर्ष के अध्ययनरत छात्रों की फीस भी सरकार भरवा रही है। इस संबंध में व्यापक स्तर पर छात्र-छात्राओं को जानकारी दी जाये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहाकि प्रशासनिक व्यवस्थाएं इतनी चुस्त और दुरूस्त हों कि गरीब और अनूसूचित जनजाति के सदस्य के साथ कोई छल नहीं कर सके। उन्होंने सरकार के कल्याणकारी कार्यों के लाभ उन तक पहुँचाने और उनकी समस्याओं का संवेदनशीलता के साथ समाधान करने के लिये निर्देशित किया। उन्होंने वनाधिकार पट्टे, कुपोषण, बँटवारे, जाति प्रमाण पत्र, वनोपज संग्रहण और विक्रय, निजी भूमि पर पेड़ काटने के अधिकार से संबंधित समस्याओं का परीक्षण करने और प्रभावी समाधान के लिये संभागायुक्तों को व्यक्तिगत उत्तरदायित्व के साथ कार्य करने के लिये निर्देशित किया। कहा कि वनाधिकार दावों के पुन: परीक्षण के कार्य को और अधिक गति से संचालित करें ताकि अगस्त माह तक सभी पात्रों को वनाधिकार पट्टे मिल जायें। चरण पादुका योजना के अंतर्गत सभी पात्र व्यक्तियों को सामग्री मिलना सुनिश्चित करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि रहने लायक भूमि के टुकड़े का अधिकार पत्र 15 अगस्त से पूर्व सभी पात्र परिवारों को मिल जाये। नगरीय क्षेत्र की भूमि पर लम्बे समय से बसे परिवारों की समस्याओं के समाधान के लिये विशेष दृष्टि के साथ प्रयास हो। उन्होंने कहा कि वे स्वयं भी राजस्व न्यायालय मॉनीटरिंग सिस्टम की समीक्षा समय-समय पर करेंगे। साथ ही बटाईदार कानून एवं भू-राजस्व संहिता में किये जा रहे क्रांतिकारी बदलाव का प्रचार-प्रसार करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अगर किसी किसान को गेहूँ, चना और मसूर का किसी कारणवश उपार्जन पोर्टल पर दर्ज नहीं हो सका है, उन प्रकरणों का परीक्षण स्वयं संभागायुक्त करें। उनके प्रतिवेदन के आधार पर छूट गये किसानों को दर्ज करने के लिये पोर्टल खुलवाया जायेगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि यह सुनिश्चित किया जाना चाहिये कि व्यवस्था से केवल वास्तविक किसान ही लाभान्वित हों। साथ ही, गेहूँ खरीदी की राशि का शीघ्र भुगतान भी सुनिश्चित किया जाये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंदसौर की घटना के अपराधियों को जल्द से जल्द दण्ड दिलाने के लिये सजगता के साथ प्रयासों की जरूरत बताई। उन्होंने कहा कि आगामी समय में पर्वों को दृष्टिगत रखते हुए संवदेनशील कार्य प्रणाली के साथ व्यवस्थाएं की जायें। हर हाल में साम्प्रदायिक सौहार्द्र को सुनिश्चित किया जाये। प्राकृतिक आपदाओं की आशंका के दृष्टिगत अग्रिम कार्य-योजना बनाई जाये, जिसमें राहत और बचाव के समुचित प्रबंध हों। उन्होंने कहा कि अवैध खनन के प्रकरणों में वाहन जप्त कर नीलामी की कार्रवाई की जानी चाहिये। इसी तरह असामाजिक तत्वों के विरूद्ध भी कठोर कार्रवाई की जाये। मुख्यमंत्री ने विगत दिनों प्रदेश में की गई कार्रवाई के सकारात्मक परिणामों का उल्लेख भी किया। उन्होंने सायबर क्राईम और सोशल मीडिया की कड़ी निगरानी की जरूरत बताई। मादक पदार्थों के व्यापार को रोकने के लिये विशेष प्रयास करने के लिये कहा। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि 14 जुलाई से प्रदेश में जन-आशीर्वाद यात्रा का आयोजन किया जायेगा। यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री आम जन के साथ सीधा संवाद करेंगे। गरीब बस्तियों में जाकर रहवासियों के साथ चर्चा करेंगे। शासन की योजनाओं की जमीनी हकीकत से परिचित होंगे। क्रियान्वयन कार्य की समीक्षा के लिये राजस्व न्यायालय, छात्रावास, चिकित्सालय, विद्यालय और निर्माण कार्यों का भी आकस्मिक निरीक्षण करेंगे। इस दौरान बताया गया कि फसल बीमा योजनांतर्गत खरीफ 2017 के दावों की राशि का शीघ्र वितरण किया जायेगा। इससे प्रदेश के 17 लाख 77 हजार 300 किसानों को 5260 करोड़ रूपये की राशि मिलेगी। यह देश में किसानों को मिलने वाली अभी तक की सर्वाधिक राशि है। बैठक में अपर मुख्य सचिव कृषि श्री पी.सी. मीना, अपर मुख्य सचिव वन श्री के.के. सिंह, अपर मुख्य सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास श्री इकबाल सिंह बैस, श्रम, कृषि, ऊर्जा, सूक्ष्म एवं लघु उद्योग, अनुसूचित जनजाति कल्याण, राजस्व, नगरीय प्रशासन आदि विभागों के प्रमुख सचिव एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 30 June 2018


umashankar gupta

भूमि के डायवर्सजन के लिये अब किसी को भी अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) के न्यायालय से अनुमति लेने की जरूरत नहीं होगी। अब भूमि स्वामी अपनी भूमि का विधि-सम्मत जैसा चाहे, डायवर्सन कर सकेगा। उसे केवल डायवर्सन के अनुसार भूमि उपयोग के लिये देय भू-राजस्व एवं प्रीमियम की राशि की स्वयं गणना कर राशि जमा करानी होगी और इसकी सूचना अनुविभागीय अधिकारी को देनी होगी। यह रसीद ही डायवर्सन का प्रमाण मानी जायेगी। अनुज्ञा लेने का प्रावधान अब समाप्त किया जा रहा है। एमपी के राजस्व, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री  उमाशंकर गुप्ता ने यह जानकारी देते हुए बताया है कि इस संबंध में विधानसभा में मध्यप्रदेश भू-राजस्व संहिता (संशोधन) विधेयक-2018 पारित किया जा चुका है। भू-राजस्व संहिता में अब तक हुए 58 संशोधन श्री गुप्ता ने बताया कि मध्यप्रदेश भू-राजस्व संहिता-1959 में अब तक 58 संशोधन किये जा चुके हैं। इसके बाद भी जन-आकांक्षाओं की पूर्ति के लिये जरूरी संशोधनों के सुझाव के लिये भूमि सुधार आयोग गठित किया गया था। आयोग के सुझावों के आधार पर भू-राजस्व संहिता में संशोधन किये गये हैं। नामांतरण के बाद मिलेगी नि:शुल्क प्रति नामांतरण का आदेश होने के बाद अब सभी संबंधित पक्षों को आदेश और सभी भू-अभिलेखों में दर्ज हो जाने के बाद उसकी नि:शुल्क प्रति दी जायेगी। यह प्रावधान भी किया गया है कि भूमि स्वामी जितनी चाहे, उतनी भूमि स्वयं के लिये रखकर शेष भूमि बाँट सकेगा। निजी एजेंसी करेगी सीमांकन सीमांकन के मामले जल्दी निपटाने के लिये अब निजी प्राधिकृत एजेंसी की मदद ली जायेगी। प्रत्येक जिले के लिये एजेंसी पहले से तय की जायेगी। यदि तहसीलदार द्वारा सीमांकन आदेश के बाद पक्षकार संतुष्ट नहीं है, तो वह अनुविभागीय अधिकारी को आवेदन कर सकेगा। अनुविभागीय अधिकारी द्वारा विशेषज्ञ कर्मचारियों की टीम से सीमांकन करवाया जायेगा। पहले यह मामले राजस्व मण्डल ग्वालियर में प्रस्तुत होते थे। ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्र में राजस्व सर्वेक्षण एवं बंदोबस्त से संबंधित रहे भू-राजस्व संहिता के अध्याय-7 एवं 8 को हटाकर एक अध्याय-7 भू-सर्वेक्षण के रूप में रखा जा रहा है। अब राजस्व सर्वेक्षण के स्थान पर भू-सर्वेक्षण की कार्यवाही कलेक्टर के नियंत्रण में करवाई जायेगी। अब पूरे जिले को भू-सर्वेक्षण के लिये अधिसूचित करने की जरूरत नहीं रहेगी। अब तहसील अथवा तहसील से भी छोटे क्षेत्र को भी अधिसूचित किया जा सकेगा। खसरे में छोटे-छोटे मकानों के प्लाट का भी इंद्राज हो सकेगा। पटवारी हल्के के स्थान पर होगा सेक्टर का नाम भू-अभिलेखों के संधारण तथा शहरी भूमि प्रबंधन को अधिक व्यवस्थित बनाने के लिये शहरी क्षेत्रों में अब पटवारी हल्के के स्थान पर सेक्टर का नाम दिया जायेगा। आयुक्त भू-अभिलेख को सेक्टर पुनर्गठन के अधिकार होंगे। भू-अभिलेख संधारण के मामलों में ऐसी भूमियाँ, जिनका कृषि भूमि में कृषि से भिन्न प्रयोजन के लिये डायवर्सन कर लिया जाता है, उन्हें नक्शों में ब्लाक के रूप में दर्शाया जायेगा। यदि अनेक भूखण्ड धारक हैं, तो उनके अलग-अलग भू-खण्ड दर्शाये जायेंगे। अतिक्रमण पर एक लाख का जुर्माना शासकीय भूमियों पर अतिक्रमण के मामलों में अब अधिकतम एक लाख रुपये तक का जुर्माना लगाया जा सकेगा। निजी भूमियों के मामले में 50 हजार रुपये तक के जुर्माने का प्रावधान होगा। इसके साथ ही जिस भूमि पर अतिक्रमण होगा, उसे अतिक्रामक से 10 हजार रुपये प्रति हेक्टेयर प्रति वर्ष के मान से मुआवजा भी दिलाया जा सकेगा। अभी अतिक्रमित भूमि के मूल्य के 20 प्रतिशत तक अर्थदण्ड के प्रावधान थे।   

Dakhal News

Dakhal News 28 June 2018


प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान

मध्यप्रदेश को प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत मातृ मृत्यु दर कम करने पर पुरस्कृत किया जायेगा। इसके लिये केन्द्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री श्री जगत प्रकाश नड्डा ने मध्यप्रदेश के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री रुस्तम सिंह को पत्र लिखकर 29 जून को होने वाली अवार्ड सेरेमनी के लिये आमंत्रित किया है। केन्द्रीय मंत्री श्री नड्डा ने मध्यप्रदेश के स्वास्थ्य विभाग और स्वास्थ्य मंत्री श्री सिंह को इसके लिये बधाई भी दी है। प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान देश में 3 करोड़ से अधिक गर्भवती महिलाओं को प्रसव के पहले देखभाल की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिये शुरू किया गया है। राज्य शासन द्वारा प्रदेश में मातृ मृत्यु दर को कम करने के प्रयास अब सार्थक परिणाम देने लगे हैं। भारत के रजिस्ट्रार जनरल कार्यालय द्वारा वर्ष 2014 से 2016 तक के विशेष बुलेटिन में मध्यप्रदेश में मातृ मृत्यु में 48 अंकों की अभूतपूर्व गिरावट दर्ज हुई है। प्रदेश में वर्ष 2011-13 में मातृ मृत्यु दर 221 थी, जो अब घटकर मात्र 173 रह गई है। प्रदेश में पिछले तीन वर्षों में 22 प्रतिशत की उल्लेखनीय गिरावट दर्ज की गई है। संस्थागत प्रसव, ए.एन.एम., आँगनबाड़ी कार्यकर्ता, दस्तक अभियान आदि निरंतर जारी विभिन्न जागरूकता कार्यक्रमों के परिणाम अब आने लगे हैं। आने वाले वर्षों में यह गिरावट और अधिक स्पष्ट होगी। स्वास्थ्य संस्था स्तर से लेकर समुदाय स्तर तक प्रभावी प्रयास किये जा रहे हैं। लोगों को जागरूक किया गया है कि गर्भ का पता चलते ही शीघ्र स्वास्थ्य केन्द्र में गर्भधात्री महिला का पंजीयन करवायें। इससे प्रसव के पहले आवश्यक जाँचें, टीकाकरण, खून की कमी आदि का उपचार होने के साथ ही अन्य जटिलताओं पर काबू पाने में आसानी हुई है। मध्यप्रदेश में उच्च जोखिम प्रसव की संभावनाओं वाली महिलाओं का नियमित फॉलोअप करके उनका सुरक्षित प्रसव कराने के प्रयास किये जा रहे हैं। शासकीय स्वास्थ्य संस्थाओं में खून की कमी वाली गर्भवती महिलाओं को आयरन टेबलेट्स और अत्यधिक खून की कमी होने पर आयरन के इंजेक्शन दिये जा रहे हैं। जरूरत पड़ने पर गर्भवती महिलाओं को खून भी चढ़ाया जा रहा है। स्वास्थ्य सेवाओं का नियमित पर्यवेक्षण किया जा रहा है। स्वास्थ्य संस्थाओं में नर्सिंग सेवा की गुणवत्ता बढ़ाने के उद्देश्य से नर्सिंग मेंटर्स की तैनाती की गई है।  

Dakhal News

Dakhal News 28 June 2018


apatkal

केन्द्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री  अनन्त कुमार ने कहा है कि मध्यप्रदेश की तरह दूसरे प्रदेशों में भी लोकतंत्र सेनानी कानून बनाया जाना चाहिए। पाठ्यक्रमों में स्वतंत्रता सेनानियों की तरह लोकतंत्र सेनानियों के बारे में भी अध्याय होना चाहिए। केन्द्रीय मंत्री श्री अनन्त कुमार भोपाल में  मुख्यमंत्री निवास में आयोजित लोकतंत्र सेनानी सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सम्मेलन में कहा कि मध्यप्रदेश में आज विधानसभा में विधेयक पारित कर लोकतंत्र सेनानियों के लिये कानून बनाया गया है। उन्होंने कहा कि आपातकाल, लोकतंत्र के इतिहास का काला अध्याय है। केन्द्रीय मंत्री श्री अनन्त कुमार ने कहा कि लोकतंत्र का दमन करने वालों की जनता ने छुट्टी कर दी है। लोकतंत्र बचाने के लिये जो संघर्ष लोकतंत्र सेनानियों ने किया, उसे पूरे देश और दुनिया ने स्वीकारा है। लोकतंत्र सेनानी आजादी की दूसरी लड़ाई लड़े थे। स्वतंत्रता सेनानियों की तरह लोकतंत्र सेनानियों को भी सम्मान मिलना चाहिए। उनका संघर्ष प्रेरणा देने वाला है। मध्यप्रदेश ने लोकतंत्र सेनानियों के लिये काम कर पूरे देश के सामने मिसाल पेश की है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र की रक्षा के लिये सभी लोगों को हमेशा सचेत रहना होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आपातकाल में लोकतंत्र सेनानियों पर अमानुषिक अत्याचार हुए थे। कई परिवार तबाह हो गये थे। लोकतंत्र को कलंकित किया गया था। लोकतंत्र सेनानियों के संघर्ष के कारण लोकतंत्र पुनर्स्थापित हुआ था। लोकतंत्र सेनानियों का सम्मान कर प्रदेश सरकार ने अपना कर्तव्य पूरा किया है। हमें संकल्प लेना चाहिए कि फिर लोकतंत्र को कलंकित नहीं होने देंगे। लोकतंत्र को जिनसे खतरा है, उनसे हमेशा सावधान रहेंगे। कार्यक्रम में सांसद श्री राकेश सिंह ने कहा कि लोकतंत्र की सुरक्षा के लिये लोकतंत्र सेनानियों का योगदान हमेशा याद रहेगा। युवा पीढ़ी को यह हमेशा प्रेरणा देता रहेगा। कार्यक्रम में स्वागत भाषण लोकतंत्र सेनानी संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री कैलाश सोनी ने दिया। कार्यक्रम में लोकतंत्र सेनानी संघ की स्मारिका का विमोचन किया गया। साथ में महिला लोकतंत्र सेनानियों श्रीमती सविता वाजपेई, श्रीमती उमा शुक्ला, श्रीमती जयश्री बैनर्जी, श्रीमती कांता चोपड़ा और श्रीमती रामकली मिश्रा की पुत्री आरती इलैया का सम्मान किया गया। कार्यक्रम में जनसम्पर्क एवं जल-संसाधन मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, सांसद श्री आलोक संजर, श्री मेघराज जैन, श्री माखन सिंह, पूर्व मंत्री श्री सरताज सिंह सहित बड़ी संख्या में लोकतंत्र सेनानी उपस्थित थे। सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री श्री लाल सिंह आर्य ने अतिथियों का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष श्री तपन भौमिक ने किया।  

Dakhal News

Dakhal News 28 June 2018


 कांग्रेस ने पेश किया अविश्वास प्रस्ताव, विधानसभा की कार्यवाही स्थगित

  कांग्रेस ने आज से शुरू हुए मध्यप्रदेश विधानसभा के मानसून सत्र में अविश्वास प्रस्ताव पेश कर दिया। सरकार के खिलाफ ये प्रस्ताव कांग्रेस के धाकड़ विधायक रामनरेश रावत ने पेश किया। रावत ज्योतिरादित्य सिंधिया के खास माने जाते हैं और उन्होंने सरकार के खिलाफ सबसे ज्यादा सवाल उठाए हैं। इधर दोपहर में कार्यवाही के दौरान काफी हंगामा हुआ जिसके चलते सदन की कार्यवाही मंगलवार तक के लिए स्थगित कर दी गई। गौरतलब है कि मध्यप्रदेश विधानसभा का आगामी 5 दिवसीय सत्र सोमवार से शुरू हुआ। कांग्रेस द्वारा पहले ही इस सत्र में अविश्वास प्रस्ताव लाने की घोषणा कर विधानसभाध्यक्ष को सूचना दे दी थी। इसी पर अमल करते हुए कांग्रेस विधायक रामनरेश रावत ने सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया। विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीतासरण शर्मा अब इस प्रस्ताव का परीक्षण कर निर्णय लेंगे। कांग्रेसी विधायकों ने सुबह विधानसभा में प्रवेश करते ही अपने आक्रामक रुख जाहिर कर दिए थे। वे नारेबाजी करते हुए विधानसभा में घुसे थे। विभिन्न मुद्दों पर घेरते हुए कांग्रेस ने भाजपा सरकार से पिछले 5 सालों का हिसाब मांगा। इसके अलावा कांग्रेस ने सरकार को घेरने के लिए मुख्य रूप से ई-टेंडरिंग घोटाला, कुपोषण की स्थिति, महिला अपराध, किसानों की आत्महत्या, नर्मदा सेवा यात्रा और प्याज घोटालों को उठा रही है। इसके अलावा प्रदेश पर लगातार बढ़ते कर्ज के मुद्दे को भी अविश्वास प्रस्ताव में शामिल किया गया है। कांग्रेस ने सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश करने के अलावा मानसून सत्र की अवधि बढ़ाने की भी मांग की है। आपको बता दें कि इस बार का सत्र 25 से 29 जून तक चलेगा। 5 दिवसीय इस सत्र में 5 बैठकें होना है। सरकार विधानसभा में अनुपूरक बजट भी रखेगी। कांग्रेस इस सत्र को पूरी तरह भुनाने की कोशिश में है क्योंकि इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनावों के पहले यह सत्र मौजूदा विधानसभा का अंतिम सत्र है। अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा को लेकर विधानसभा में चर्चा शुरू हुई तो संसदीय कार्य मंत्री ने कहा विपक्ष के प्रस्ताव में कोई दम नहीं वहीं कांग्रेस के नेताओं ने कहा कि अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा कराई जाए। नियमों का विषय उठाते हुए डॉ. गौरीशंकर शेजवार ने कहा कि अविश्वास प्रस्ताव के आरोप पर नेता प्रतिपक्ष के हस्ताक्षर ही नहीं है, ऐसे में प्रस्ताव कानूनी रूप से अवैध है। नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने आरोप लगाया कि सरकार चर्चा से भाग रही है। सरकार अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा कराए। उन्होंने कहा कि हम अविश्वास प्रस्ताव के माध्यम जनता के बीच में जाएंगे और ये सिर्फ छपने के लिए नहीं है। कांग्रेस विधायक दल के मुख्य सचेतक रामनिवास रावत ने अविश्वास प्रस्ताव की स्वीकार्यता को लेकर चर्चा की शुरुआत की। इधर कांग्रेस विधायकों ने सदन में मंदसौर गोलीकांड में मारे गए किसानों वाले पोस्टर लहराए। कांग्रेस विधायक हरदीप सिंह डंग पूरे समय शरीर पर मंदसौर गोलीकांड की जांच रिपोर्ट पर चर्चा कराने संबंधी मांग का पोस्टर लगाए रहे।हंगामा इतना बढ़ गया कि सदन की कार्यवाही मंगलवार तक के लिए स्थगित कर दी गई।

Dakhal News

Dakhal News 25 June 2018


वीरांगना रानी दुर्गावती

वीरांगना रानी दुर्गावती के 455वें बलिदान दिवस समारोह में मुख्यमंत्री  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने  जबलपुर में वीरांगना रानी दुर्गावती के समाधि स्थल पर 455वें बलिदान दिवस पर आयोजित विशाल आदिवासी सम्मेलन में घोषणा की कि युवा पीढ़ी को बलिदान और स्वाभिमान की रक्षा के लिये प्रेरित करने के उद्देश्य से समाधि स्थल पर हर वर्ष रानी दुर्गावती के बलिदान-दिवस पर तीन दिवसीय कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। वन भूमि पर वर्ष 2006 तक काबिज वनवासी आदिवासियों को वनाधिकार पट्टे देकर काबिज वनभूमि का मालिक बनाया जायेगा। सौभाग्य योजना के अंतर्गत दिसम्बर 2018 तक प्रत्येक आदिवासी परिवार के घर-घर तक बिजली पहुँचाई जायेगी। इन परिवारों को 200 रूपये प्रतिमाह फ्लेट रेट पर ही बिजली बिल का भुगतान करना होगा। संबल योजना में गरीब आदिवासी परिवारों को शामिल कर योजना के सभी लाभ दिये जायेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि रानी दुर्गावती के समाधि स्थल के समीप 10 एकड़ शासकीय भूमि पर वीरांगना के नाम से भव्य स्मारक बनवाया जायेगा। उन्होंने मण्डला जिले के रामनगर में आदिवासी संग्रहालय बनवाने की घोषणा करते हुए कहा कि गरीब आदिवासी परिवारों को आवासीय भूमि का पट्टा दिया जायेगा और अगले चार वर्षों में उन्हें पट्टे की जमीन पर पक्के मकान बनवाकर दिये जायेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार आदिवासी समुदाय के विकास और समृद्धि के साथ-साथ उनके गौरवपूर्ण इतिहास, परम्परा, बलिदान और संस्कृति को अक्षुण्ण बनाये रखेगी। स्वाधीनता की लड़ाई में आदिवासी नायकों के अमूल्य योगदान का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि वीरांगना रानी दुर्गावती ने जहाँ एक ओर राज्य की स्वतंत्रता और स्वाभिमान की रक्षा के लिये अपना बलिदान दिया, वहीं दूसरी ओर अपने 15 वर्ष के शासनकाल में प्रजा के लिये जनहितैषी कल्याणकारी कार्य करवाये, जिसके प्रमाण आज जबलपुर सहित अन्य स्थानों पर देखे जा सकते हैं। रानी दुर्गावती ने जल संरक्षण के लिये तालाबों का निर्माण करवाया और आम आदमी की सुविधा के लिये धर्मशालाएँ भी बनवाईं। रानी दुर्गावती के नाम पर होगा डूमना विमानतल का नामकरण मुख्यमंत्री श्री चौहान ने घोषणा की कि जबलपुर के डुमना विमानतल का नामकरण रानी दुर्गावती के नाम पर करने के लिये विधानसभा में राज्य शासन की ओर से प्रस्ताव पारित करवाकर केन्द्र शासन को भेजा जायेगा। श्री चौहान ने कहा कि महिला स्व-सहायता समूह से आदिवासी महिला को जोड़कर उनके जीवन स्तर को बेहतर बनाने के प्रयास किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का पूरा प्रयास है कि आदिवासी के जीवन में समृद्धि और खुशहाली आये इसलिए राज्य सरकार के बजट का बड़ा हिस्सा आदिवासियों और गरीबों के कल्याण और विकास के लिये व्यय करने का निर्णय लिया गया है। बेटा-बेटी को खूब पढ़ायें आदिवासी परिवार मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आदिवासी समुदाय से अपील की कि बच्चों को आत्म-निर्भर और सशक्त बनाने के लिये खूब पढ़ाई-लिखाई करवायें। उनके बेटा-बेटी की पढ़ाई का खर्चा राज्य सरकार वहन करेगी। श्री सिंह ने बताया कि केन्द्र और राज्य सरकार देश और प्रदेश में महिलाओं के सशक्तिकरण के लिये तेजी से प्रयास कर रही है। उन्होंने आदिवासी परिवारों से कहा कि अपने बेटा-बेटियों को खूब पढ़ायें-लिखायें और समाज में आगे बढ़ने का मौका दें। समारोह में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने श्री शंकरदयाल भारद्वाज द्वारा लिखित पुस्तक 'रानी दुर्गावती-एक बलिदान गाथा' का विमोचन किया। श्री चौहान ने लेखक श्री भारद्वाज को शॉल-श्रीफल देकर सम्मानित भी किया। सांसद श्री राकेश सिंह एवं श्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने भी अपने विचार व्यक्त किये। मुख्यमंत्री का तलवार-ढाल भेंट कर किया सम्मान मध्यप्रदेश जनजाति संयुक्त मोर्चा के प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री श्री चौहान को बड़ी फूल माला पहनाई और तलवार तथा ढाल भेंट कर सम्मानित किया। इस अवसर पर सांसद श्रीमती संपतिया उईके, विधायक श्री सुशील तिवारी, श्रीमती प्रतिभा सिंह एवं सुश्री नंदिनी मरावी, मनोनीत विधायक श्री एल.बी. लोबो, महापौर डॉ. स्वाति सदानंद गोडबोले, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती मनोरमा पटेल, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक वित्त तथा विकास निगम के उपाध्यक्ष श्री एस.के. मुद्दीन, जबलपुर कृषि उपज मंडी अध्यक्ष श्री राजाबाबू सोनकर, बड़ी संख्या में विशाल आदिवासी समुदाय मौजूद था।

Dakhal News

Dakhal News 25 June 2018


शिवराज सिंह चौहान से केंद्रीय राज्यमंत्री  हेगड़े ने की सौजन्य भेंट

   मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान से आज मंत्रालय में केंद्रीय राज्य मंत्री कौशल उन्नयन और उद्यमिता श्री अनंत कुमार हेगड़े ने सौजन्य भेंट की। श्री चौहान ने केंद्रीय राज्य मंत्री का पुष्पगुच्छ भेंट कर स्वागत किया। मुख्यमंत्री और केंद्रीय राज्य मंत्री ने विभिन्न विषयों पर चर्चा की।

Dakhal News

Dakhal News 22 June 2018


अपर मुख्य सचिव बने मनोज श्रीवास्तव

केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर गए अपर मुख्य सचिव दीपक खांडेकर के कार्यमुक्त होते ही गुरुवार को सरकार ने 1987 बैच के आईएएस अधिकारी मनोज श्रीवास्तव को अपर मुख्य सचिव पद पर पदोन्नत कर दिया। उन्हें मौजूदा विभागों के साथ प्रोफेशनल एक्जामिनेशन बोर्ड (पीईबी) के अध्यक्ष का अतिरिक्त प्रभार भी दिया गया है। असंवर्गीय पद होने की वजह से पीईबी अध्यक्ष पद को राजस्व मंडल के अध्यक्ष के समकक्ष घोषित किया गया है। श्रीवास्तव की पदोन्न्ति से 1987 बैच का रास्ता खुल गया है। वहीं, अगस्त में 1984 बैच के अफसर कंचन जैन और बीआर नायडू सेवानिवृत्त हो रहे हैं। केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से कोई अफसर नहीं लौटा तो प्रमुख सचिव शिखा दुबे और एम. मोहन राव अपर मुख्य सचिव बन जाएंगे।  

Dakhal News

Dakhal News 21 June 2018


मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान

मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश के किसानों की फसल निर्यात करने के लिये एपिडा (Agricultural and Processed Food Products Export Devlopment Authority) की तर्ज पर प्रदेश में बोर्ड का गठन किया जायेगा। श्री चौहान जबलपुर में कृषक समृद्धि योजना के अंतर्गत आयोजित राज्य-स्तरीय किसान महा-सम्मेलन में बड़ी संख्या में मौजूद किसानों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ग्रीष्मकालीन उड़द भी समर्थन मूल्य पर खरीदेगी। उन्होंने उड़द उत्पादक किसानों से आग्रह किया कि कृषक समृद्धि योजना में अपना पंजीयन करायें, ताकि उन्हें भी योजना का समय लाभ मिल सके। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि खेती का विकास और किसान का कल्याण राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। खेतिहर परिवारों के बेटा-बेटी कृषि आधारित उद्योग-धंधे स्थापित करें। राज्य सरकार उन्हें 10 लाख से 2 करोड़ रूपये तक ऋण उपलब्ध करवाएगी। इस ऋण की गारंटी भी राज्य सरकार लेगी। श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में लॉजिस्टिक हब और फुड चेन बनाई जायेगी। कच्चे माल के प्र-संस्करण की व्यवस्था की जायेगी। किसानों को कृषक समृद्धि योजना सहित अन्य महत्वपूर्ण योजनाओं की जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री ने बताया कि किसानों के बच्चों की शिक्षा संस्थानों की फीस भी राज्य सरकार भरेगी। आवश्यकतानुसार किसान परिवार के सदस्यों का प्रायवेट अस्पताल में ईलाज कराने की पूरी व्यवस्था की जायेगी। किसानों को बिजली बिलों की परेशानी से राहत देने के लिये जुलाई माह में बड़े पैमाने पर शिविर लगाये जायेंगे। उन्होंने बताया कि किसान परिवार के बच्चों को भी शिक्षा विभाग की लेपटॉप योजना का लाभ दिया जायेगा। श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार चाहती है कि प्रदेश के बच्चे खूब पढ़ें, आगे बढ़ें और नया मध्यप्रदेश गढ़ें। राज्य-स्तरीय किसान सम्मेलन में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि एक जमाना था, जब प्रदेश के किसान बिजली, सिंचाई, बैंक के कर्ज और सड़क की बदहाली के कारण चैन से खेती नहीं कर पाते थे। उन्होंने कहा कि आज स्थिति बिल्कुल अलग है। आज प्रदेश में विद्युत उत्पादन 18 हजार 354 मेगावॉट तक पहुँच गया है। किसानों को भरपूर बिजली मुहैया कराई जा रही है। सिंचाई का रकबा 40 हजार हेक्टेयर हो गया है, किसानों के खेतों में पाईप लाईन से आवश्यकतानुसार भरपूर पानी पहुँचाया जा रहा है। किसान को अब बैंक ऋण पर भारी ब्याज नहीं देना पड़ता है। जीरो प्रतिशत ब्याज पर बैंक से ऋण लेकर किसान खेती कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के माध्यम से ग्रामीण अंचल शहरों से जुड़ गये हैं। फसल बीमा योजना और सूखा राहत राशि की बड़े पैमाने पर व्यवस्था से किसान निश्चिंत होकर खेती को लाभ का धंधा बनाने में जुट गये हैं। रु. 394 करोड़ लागत के निर्माण कार्यों का भूमि-पूजन मुख्यमंत्री श्री चौहान ने राज्य-स्तरीय किसान महा-सम्मेलन में लगभग 394 करोड़ रूपये लागत के निर्माण कार्यों का भूमि-पूजन किया। इसमें 257 करोड़ की नर्मदा पेयजल योजना, 51 करोड़ का बेलखेड़ा विद्युत उपकेन्द्र, 34 करोड़ 8 लाख का गौरा बाजार विद्युत उपकेन्द्र, 20 करोड़ 38 लाख का मेडिकल यूनिवर्सिटी का प्रशासनिक भवन तथा 21 करोड़ 71 लाख की मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल योजना शामिल है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना के अंतर्गत प्रदेश के 10 लाख 80 हजार 228 पंजीकृत किसानों के बैंक खातों में रबी वर्ष 2018-19 में उपार्जित गेहूँ की 265 रूपये प्रति क्विंटल के हिसाब से कुल प्रोत्साहन राशि 2 हजार 245 करोड़ ऑनलाईन ट्रांसफर की। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की इस पहल से प्रदेश के किसान आर्थिक रूप से सशक्त होंगे। खेती के क्षेत्र में नया इतिहास रचेंगे। उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश है कि प्रदेश में खेती से होने वाली आमदनी किसानों के लिये समृद्धि का सशक्त माध्यम बने। श्री चौहान ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना में पंजीकृत किसानों को हित-लाभ वितरित किये। इसी के साथ किसानों की बेटियों को हायर सेकेण्डरी की परीक्षा में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिये सम्मानित भी किया। श्री चौहान ने इस मौके पर किसानों को सरकार के साथ नया मध्यप्रदेश गढ़ने, गाँव को स्वच्छ बनाने और बेटा-बेटी को बराबरी से पढ़ाने का संकल्प दिलाया। राज्य-स्तरीय किसान सम्मेलन में महामण्डलेश्वर स्वामी अखिलेश्वरानंद, सांसद श्री राकेश सिंह, महापौर डॉ. स्वाति गोड़बोले, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती मनोरमा पटेल, विधायक श्री अंचल सोनकर, श्री सुशील तिवारी, सुश्री प्रतिभा सिंह, सुश्री नंदिनी मरावी, श्री अशोक रोहाणी, श्री मोती कश्यप, श्री लारेन बी लोबो, जबलपुर प्राधिकरण के अध्यक्ष डॉ. विनोद मिश्रा, महाकौशल विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री प्रभात साहू, किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्री रणवीर सिंह रावत, अन्य किसान नेता, अन्य जन-प्रतिनिधि तथा बड़ी संख्या में ग्रामीण और किसान मौजूद थे।  

Dakhal News

Dakhal News 11 June 2018


 एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

 एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि गाँवों, गरीबों और किसानों का विकास सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता रही है। मुख्यमंत्री जन-कल्याण योजना के तहत हर गरीब व्यक्ति को ''सम्बल'' देकर उसे समर्थ बनाया जायेगा। गरीबों और मेहनतकशों के विकास में सरकार कोई कसर नहीं रखेगी। मुख्यमंत्री आज टीकमगढ़ जिले के बड़ागांव (धसान) के समीप अंतौरा गांव में असंगठित श्रमिकों व तेन्दूपत्ता संग्राहकों के संयुक्त सम्मेलन को सम्बोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने विधायक की मांग पर बड़ागांव में अमर शहीद श्री नारायण दास खरे तथा श्री अमृत लाल फणींन्द्र की प्रतिमा लगाने और हर साल शहीद मेला आयोजित करवाने की घोषणा की। उन्होंने जिले के बड़ागांव, बल्देवगढ़, खरगापुर में महाविद्यालय खोलने और विकास कार्यों की सभी मांगों का परीक्षण कर उन्हें जल्द से जल्द पूरा करवाने की बात भी कही। मुख्यमंत्री ने बानसुजारा समूह जल-प्रदाय योजना के लिये 272 करोड़ रूपयों की वित्तीय स्वीकृति शीघ्र दिलाने की घोषणा भी की। श्री चौहान ने असंगठित श्रमिकों को प्रतीकात्मक रूप से पंजीयन प्रमाण-पत्र एवं आवासीय पट्टे तथा चरण-पादुका योजना में 33 हजार 777 तेन्दूपत्ता एवं महुआ फूल संग्राहकों को जूते, चप्पल, साड़ियां व पानी की कुप्पी आदि सामग्री वितरित की। मुख्यमंत्री ने तेंदूपत्ता संग्राहक श्रीमती मानकुंवर बाई एवं श्री धनीराम को अपने हाथों से चप्पल/जूते पहनाकर साड़ी और पानी की कुप्पी प्रदान कीं। उन्होंने युवा उद्यमी योजना के तहत श्री अंशुल दांगी को पोहा निर्माण इकाई के लिये 40 लाख का चैक प्रदान किया तथा अन्य हितग्राहियों को भी पात्रतानुसार हितलाभ वितरित किये। श्री चौहान ने 122 करोड 55 लाख 20 हजार रूपये की लागत वाले 13 विकास कार्यो का लोकार्पण एवं भूमि-पूजन भी इस मौके पर किया। मुख्यंमत्री ने कहा कि सरकार हर गरीब एवं श्रमिक को उसकी पहचान स्थापित करने के लिये पंजीयन प्रमाण-पत्र के रूप में स्मार्ट कार्ड देगी। स्मार्ट कार्ड में उसकी संपूर्ण जानकारी होगी। स्मार्ट कार्डधारी व्यक्ति मुख्यमंत्री जन-कल्याणकारी योजना ''सम्बल'' का लाभ लेने के लिये पात्र होगा। योजना के तहत उसे 11 प्रकार की सुविधाओं/सहायता/बैंक लिंकेज का लाभ दिया जायेगा। गरीब बच्चों की कक्षा एक से पीएचडी तक की पढ़ाई की फीस अब सरकार भरेगी। उन्होंने कहा कि गरीब महिलाओं को स्व-रोजगार स्थापना के लिये बैंक लिंकेज दिया जायेगा। युवाओं को रोजगार देने के लिये सरकार जल्द ही नई भर्ती करेगी। मुख्यमंत्री ने कहा है कि अगले चार साल में 40 लाख गरीबों को पक्का मकान बनाकर देंगे। हर गरीब व्यक्ति को जमीन का पट्टा देकर उसका पक्का मकान बनाया जायेगा तथा उनका इलाज कराया जायेगा, मुख्यमंत्री अन्त्योदय आवास योजना के तहत हर साल 10 लाख मकान बनाकर दिये जायेंगे। जिस हितग्राही के नाम से मकान बनेगा, राशि भी उसी के बैंकखाते में जारी की जायेगी। श्री चौहान ने असंगठित श्रमिकों और तेन्दूपत्ता संग्राहकों को मुख्यमंत्री जन-कल्याण योजना (संबल) की जानकारी देते हुए कहा कि सभी श्रेणी के मेहनतकश मजूदर, ढाई एकड़ से कम कृषि भूमि वाले काश्तकार, छोटे व्यापारी, आयकर न देने वाले तथा जो शासकीय सेवा में नहीं है, ये सभी इस योजना के दायरे में आयेंगे। मुख्यंमत्री ने कहा कि 200 रूपये फ्लेट रेट पर बिजली देने के लिये जुलाई एवं अगस्त में पंजीयन शिविर लगेंगे। गरीबों के बच्चों की फीस भरने का काम जुलाई से शुरू होगा। जन-कल्याण योजना में पंजीयन करा चुके असंगठित श्रमिकों के लिये 13 जून को प्रदेश के हर ब्लाक में कार्यक्रम आयोजित कर हितलाभ प्रदान किये जायेंगे। उन्होंने बताया कि सरकार ने यह निर्णय लिया है कि गरीबों के बच्चों की स्कूल, कॉलेज से लेकर आई.आई.टी, आई.आई.एम., नीट, इंजीनियरिंग, मेडिकल कॉलेज, लॉ कॉलेज, पॉलिटेक्निक कॉलेज में प्रवेश पाने वाले विद्यार्थियों की फीस सरकार भरेगी। हर गांव और वार्ड में 5 सदस्यीय समिति बनाने की मंशा व्यक्त की। समिति जिला प्रभारी मंत्री के अनुमोदन से गठित होगी। इसमें 3 असंगठित श्रमिक और 2 सलाहकार भी होंगे। इस अवसर पर केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास तथा अल्पसंख्यक कार्य राज्यमंत्री डॉ. वीरेन्द्र कुमार ने मुख्यमंत्री से टीकमगढ़ संसदीय क्षेत्र में विभिन्न श्रेणी के विकास/निर्माण कार्यों को पूरा करने की मंजूरी देने और कुछ मामलों में भारत सरकार को प्रस्ताव भेजने का अनुरोध किया। कार्यक्रम को विधायक श्री के.के. श्रीवास्तव ने भी संबोधित किया। सम्मेलन में लोक स्वास्थ्य मंत्री एवं जिले के प्रभारी श्री रूस्तम सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री पर्वतलाल अहिरवार,, विधायक सर्वश्री दिनेश कुमार अहिरवार, श्री अनिल जैन तथा श्रीमती रेखा यादव, श्रीमती अनीता सुनील नायक सहित अन्य जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में श्रमिक एवं तेंदूपत्ता संग्राहक तथा ग्रामीण उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 7 June 2018


कृष्णा-राजकपूर ऑडिटोरियम का उद्घाटन करेंगे शिवराज

एमपी के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान शनिवार 2 जून को रीवा में कृष्णा-राजकपूर ऑडिटोरियम का उद्घाटन करेंगे। सुप्रसिद्ध फिल्म कलाकार एवं निर्देशक स्वर्गीय राजकपूर की पुण्य-तिथि 2 जून को आयोजित इस समारोह में उनके परिवार के सदस्य रणधीर कपूर, राजीव कपूर, प्रेम किशन मल्होत्रा, प्रेम चोपड़ा तथा श्रीमती उमा चोपड़ा विशेष रूप से शामिल होंगे। जनसम्पर्क मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र कृष्णा- राजकपूर ऑडिटोरियम के उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता करेंगे। उद्योग मंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल तथा हाउसिंग बोर्ड के अध्यक्ष श्री कृष्ण मुरारी मोघे समारोह के विशेष अतिथि होंगे। उद्घाटन समारोह में म्यूजिकल नाईट का आयोजन किया जाएगा। प्रख्यात गायक श्री सुरेश वाडकर तथा टॉक-शो होस्ट प्रख्यात अभिनेता अन्नू कपूर समारोह में प्रस्तुति देंगे। एक हजार सीटर कृष्णा-राजकपूर ऑडिटोरियम का 3301 वर्ग मीटर क्षेत्र में निर्माण किया गया है। यह वातानुकूलित ऑडिटोरियम 18 करोड़ रूपये की लागत से बनाया गया है। इसमें थियेटर, रिसोर्ट, रेस्टोरेंट और दो लॉन तथा बाउण्ड्रीवाल का निर्माण किया गया है। पार्किंग के लिये भी पर्याप्त जगह रखी गई है।

Dakhal News

Dakhal News 1 June 2018


shivraj singh

   मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने  दमोह में असंगठित श्रमिक और तेन्दूपत्ता संग्राहक सम्मेलन में कहा कि प्रदेश में गरीब और मेहनतकश लोगों के विकास का महायज्ञ थमेगा नहीं। हमारी सरकार और प्रदेश का हर नागरिक मिल-जुलकर विकास के इस महायज्ञ को पूरा करेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि गरीबों को एक रूपये किलो के भाव से गेहूँ, चावल और नमक उपलब्ध करवाने वाला हमारा प्रदेश देश का एकमात्र राज्य है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोई भी गरीब भूखा नहीं सोयेगा। हर गरीब व्यक्ति को आवासीय जमीन का पट्टा देकर पक्के मकान का मालिक बनाया जायेगा। हर गरीब का मुफ्त इलाज कराया जायेगा। गरीबों के बच्चों की पूरी पढ़ाई की फीस राज्य सरकार भरेगी। 13 जून को सभी विकासखण्ड में होंगे जन-कल्याण योजना कार्यक्रम मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि आगामी 13 जून को प्रदेश के सभी विकासखण्ड मुख्यालय में मुख्यमंत्री जन-कल्याण (संबल) योजना के पंजीकृत हितग्राहियों के लिये कार्यक्रम होंगे। कार्यक्रम में हितग्राहियों को विभिन्न योजनाओं के हित-लाभ चेक द्वारा प्रदान किये जायेंगे। श्री चौहान ने बताया कि इस योजना की निगरानी के लिये हर गाँव और हर वार्ड में पाँच सदस्यीय समिति बनाई जायेगी। मुख्यमंत्री ने अपने हाथों से संग्राहकों को पहनाई चरण-पादुका मुख्यमंत्री ने सम्मेलन में अपने हाथों से तेन्दूपत्ता संग्राहक तखत सिंह, करण सिंह और सुदामा को चरण पादुका पहनाई और पानी की कुप्पी भेंट की। इसी तरह महिला तेन्दूपत्ता संग्राहक लीला रैकवार, चम्पाबाई, गौरव बाई और बड़ी बहू को चरण पादुका पहनाई और साड़ी तथा पानी की कुप्पी भेंट की।उन्होंने विस्तार से योजना की जानकारी दी। रू. 140 करोड़ के कार्यों का भूमि-पूजन/लोकार्पण मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सम्मेलन में दमोह और सागर जिले में 140 करोड़ के विकास और निर्माण कार्यों का भूमि-पूजन एवं लोकार्पण किया। उन्होंने विभिन्न जन-कल्याणकारी योजनाओं के 40 हजार से अधिक हितग्राहियों को हित-लाभ वितरित किये। सम्मेलन में सागर और दमोह जिले के लगभग साढ़े 18 हजार तेन्दूपत्ता संग्राहकों को चरण पादुकाएँ, पानी की कुप्पी भेंट की गई। सम्मेलन में सांसद श्री प्रहलाद पटेल, वित्त मंत्री श्री जयंत मलैया, बुन्देलखण्ड विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष डॉ. रामकृष्ण कुसमरिया, हस्तशिल्प एवं हाथकरघा विकास निगम के अध्यक्ष श्री नारायण कबीरपंथी, शहरी-ग्रामीण असंगठित कर्मकार कल्याण मंडल के अध्यक्ष श्री सुल्तान सिंह शेखावत, लघु वनोपज संघ के अध्यक्ष श्री महेश कोरी, दमोह और सागर जिले के विधायक, अन्य जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में हितग्राही तथा नागरिक मौजूद थे।    

Dakhal News

Dakhal News 1 June 2018


 मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान

  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने "दिल से" दी दसवीं, बारहवीं परीक्षा में सफल विद्यार्थियों को अग्रिम बधाई  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने दसवीं और बारहवीं की राज्य बोर्ड परीक्षा के घोषित होने वाले परिणाम की चर्चा करते हुए परीक्षा में अच्छे नंबरों से पास होने वाले विदयार्थियों को अग्रिम बधाई देते हुए शुभकामनाएँ दी हैं। साथ ही उन्होंने परीक्षा में असफल रहे विदयार्थियों से कहा कि असफल होने पर निराश होने की जरूरत नहीं है। आगे और ज्यादा तैयारी करें और आगे बढें। मुख्यमंत्री आज आत्मीय संवाद 'दिल से' के माध्यम से प्रदेशवासियों को संबोधित कर रहे थे। श्री चौहान ने कहा कि केवल डिग्री अथवा अच्छे नम्बर आना सफल होने की गारंटी नहीं है। उन्होंने महात्मा गांधी, पूर्व राष्ट्रपति स्वर्गीय डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम, बाक्सर सुश्री मैरी कॉम, महान् क्रिकेटर श्री सचिन तेंदुलकर, अमेरिका के प्रथम राष्ट्रपति जार्ज वाशिंगटन का उदाहरण देते हुए कहा कि परीक्षा में कम नम्बर आने के बावजूद उन्होंने महान् काम किये। मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ लोग प्रदेश की शांति, सद्भावना एवं समरसता भंग करने के काम में लगे हैं। वे तरह-तरह की अफवाहें फैलाते हैं। ऐसे लोगों से सावधान रहने की जरूरत है। प्रदेशवासी मिल-जुल कर प्रदेश को आगे बढ़ायें। श्री चौहान ने मातृ दिवस पर सभी माताओं के त्याग और तपस्या को नमन् करते हुए युवाओं का आव्हान किया कि वे हमेशा अपने माता-पिता का सम्मान करें। उन्होंने कहा कि 15 मई को नर्मदा सेवा यात्रा का एक वर्ष पूरा हो रहा है। उन्होंने लोगों का आव्हान किया कि नदियों को बचाने के लिये स्व-प्रेरणा से आगे आयें। नर्मदा सेवा यात्रा और नर्मदा सेवा मिशन की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि नर्मदा जल को प्रदूषण से बचाने के लिये सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट लगाये जा रहे हैं। शराब की दुकानें बंद कर दी गई हैं। उन्होंने कहा कि 35 लाख से ज्यादा लोगों ने पौधों का रोपण किया। श्री चौहान ने इंदौर की हृदय-विदारक घटना की चर्चा करते हुए कहा कि दरिंदों की सजा केवल मृत्यु दण्ड है। उन्होंने मात्र 23 दिनों में न्याय प्रक्रिया पूरी करने और दोषी को मृत्यु दण्ड दिलाने के लिये पुलिस प्रशासन की सराहना की। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को बेटियों की गरिमा की रक्षा के लिये दोषी राक्षसों को फाँसी की सजा देने का कानून बनाने के लिये धन्यवाद दिया। श्री नरेन्द्र मोदी के प्रधानमंत्री के रूप में चार साल पूरे होने की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि श्री मोदी ने अद्भुत जन-कल्याण योजनाएँ शुरू की हैं। उन्होंने स्वच्छता को जन-अभियान बना दिया है। श्री चौहान ने कहा कि श्री मोदी के नेतृत्व में शक्तिशाली भारत का उदय हुआ है। सौभाग्य से भारत को श्री मोदी जैसा समर्पित नेता मिला है। श्री चौहान ने असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के कल्याण के लिये शुरू की गई योजना के लाभ की चर्चा करते हुए कहा कि यह देश की सबसे बड़ी सामाजिक सुरक्षा योजना है। चार साल के भीतर कोई भी गरीब बिना जमीन के नहीं रहेगा। उन सब का पक्का मकान होगा। बच्चों की पढ़ाई का पूरा खर्चा सरकार उठायेगी। श्रमिकों को फ्लेट रेट पर बिजली मिलेगी। श्री चौहान ने किसान कल्याण के लिये उठाये गये क्रांतिकारी कदमों की चर्चा करते हुए कहा कि किसानों को संकट में नहीं रहने देंगे। गेंहूँ, लहसुन, प्याज, चना, मसूर, सरसों की फसलों पर किसानों को नुकसान नहीं होने देंगे। वनवासी बंधुओं को वनाधिकार पटटे देने का अभियान 20 मई से शुरू हो रहा है। श्री चौहान ने नर्मदा की सेवा में समर्पित व्यक्तित्व स्वर्गीय श्री अनिल माधव दवे का स्मरण करते हुए कहा कि वे नर्मदा के सच्चे सपूत थे।

Dakhal News

Dakhal News 14 May 2018


बालकवि बैरागी को दी गई अंतिम विदाई

  साहित्यकार एवं कवि बालकवि बैरागी को मनासा में अंतिम विदाई दी गई। शोक स्वरूप पूरा मनासा नगर बंद रहा। बड़ी संख्या में लोग उन्हें अंतिम विदाई देने पहुंचे थे। बालकवि बैरागी साहित्‍य और कविता के सा‍थ राजनीति के क्षेत्र में भी सक्रिय रहे। वे राज्‍यसभा के सदस्‍य रहे। इस सरस्‍वती पुत्र को कई सम्‍मानों से नवाजा गया था। बैरागी का मनासा में भाटखेड़ी रोड पर कवि नगर पर निवास है। वहीं उन्होंने रविवार शाम 6 बजे अंतिम सांस ली थी। बैरागी जी की गिनती कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेताओं में होती थी। वे मध्‍यप्रदेश में अर्जुन सिंह सरकार में खाद्यमंत्री भी रहे। उन्हें मध्यप्रदेश सरकार के संस्कृति विभाग द्वारा कवि प्रदीप सम्मान भी प्रदान‍ किया गया। साहित्‍य और राजनीति से जुड़े रहने के कारण उनकी कविताओं में साहित्य और राजनीति की झलक देखने को मिलती है। गीत, दरद दीवानी, दो टूक, भावी रक्षक देश के, आओ बच्चों गाओ बच्चों बैरागी की प्रमुख रचनाएं हैं। मृदुभाषी और मस्‍तमौला स्‍वभाव तथा सौम्‍य व्‍यक्तित्‍व के धनी बालकवि बैरागी ने अंतरराष्ट्रीय कवि के रूप में नीमच जिले को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया था। बताया जाता है कि नीमच में एक कार्यक्रम में शामिल होकर वे अपने घर मनासा पहुंचे थे। वहां कुछ समय आराम करने के लिए अपने कमरे में गए। शाम करीब 5:00 बजे जब उन्हें चाय के लिए उठाया गया तो उनके निधन की खबर लगी।  

Dakhal News

Dakhal News 14 May 2018


शिवराज करेंगे राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग के गठन के प्रयास

  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पिछड़ा वर्ग के लिये राज्य सरकार द्वारा केन्द्र सरकार से राष्ट्रीय आयोग गठित करने और उसे संवैधानिक दर्जा दिलाने का अनुरोध किया जायेगा। पिछड़ा वर्ग के युवाओं में प्रतिभा, क्षमता और योग्यता की कोई कमी नहीं है, इन्हें शिक्षा एवं रोजगार के क्षेत्र में सभी सुविधाएँ मुहैया करवाई जायेंगी। मुख्यमंत्री ने आज सागर के समीप ग्राम बामौरा में पिछड़ा वर्ग महाकुंभ को संबोधित करते हुए यह जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने पिछड़ा वर्ग की 15 विभूतियों को म.प्र. रामजी महाजन पिछड़ा वर्ग सेवा राज्य पुरस्कार-2015 प्रदान किये। साथ ही वर्ष 2017-18 म.प्र. लोक सेवा आयोग द्वारा विभिन्न सेवाओं के लिये चयनित पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवारों को सम्मानित किया। श्री चौहान ने शासन की विभिन्न योजनाओं के पात्र हितग्राहियों को हितलाभ भी वितरित किये। मुख्यमंत्री ने की पिछड़ा वर्ग कल्याण के लिये महत्वपूर्ण घोषणाएँ अन्य पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों के लिये इसी शिक्षा सत्र से विकासखण्ड स्तर पर छात्रावास खोले जायेंगे। छात्रावास के प्रारंभ होने तक किराये के भवन में छात्रावास संचालित किये जायेंगे। ·छात्रावास में विद्यार्थी को प्रवेश नहीं मिलने की स्थिति में अगर 2 विद्यार्थी मिलकर किराये के मकान में पढ़ाई करेंगे, तो मकान किराया सरकार देगी।  पिछड़ा वर्ग छात्रवृत्ति के लिये अभिभावक की वार्षिक आय सीमा 75 हजार रूपये को बढ़ाकर 3 लाख रूपये सालाना किया जायेगा। अब एक वर्ष में अन्य पिछड़ा वर्ग के 50 विद्यार्थियों का विदेशी विश्वविद्यालय में चयन होने पर उनकी फीस राज्य सरकार भरेगी। अभी तक विद्यार्थियों की यह संख्या मात्र 10 तक सीमित थी।  पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों को प्रतिस्पर्धात्मक परीक्षाओं के लिये कोचिंग दिलवायी जायेगी।  पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों से अब कांऊसिलिंग के समय आय प्रमाण-पत्र नहीं माँगा जायेगा। केवल फीस भरते समय आय प्रमाण-पत्र की जरूरत होगी। ·पिछड़े वर्ग के विद्यार्थियों को दिया जा रहा अनुरक्षण भत्ता दोगुना किया जायेगा। यह वृद्धि मैट्रिक के बाद उच्च शिक्षा संस्थानों में चयन होने तक देय होगी।  कक्षा 12वीं में 70 प्रतिशत अंक लाने वाले अन्य पिछड़ा वर्ग के विद्याथियों को मुख्यमंत्री मेधावी छात्र प्रोत्साहन योजना का लाभ दिया जायेगा। ऐसे विद्यार्थी का चयन किसी उच्च शिक्षा संस्थान में होता है, तो उसकी फीस सरकार देगी।  हर वर्ष पिछड़ा वर्ग के 2 लाख हितग्राहियों को शासन की विभिन्न स्व-रोजगार योजनाओं का लाभ दिया जायेगा।  नरयावली में महाविद्यालय और जरूआखेड़ा में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था (आईटीआई) खोले जायेंगे। अन्य पिछड़ा वर्ग को 5973 करोड़ की आर्थिक सहायता/अनुदान मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार ने अन्य पिछड़ा वर्ग के विकास के लिये 5973 करोड़ रूपये की राशि आर्थिक सहायता और अनुदान के रूप में खर्च की है। राज्य सरकार की यह कोशिश निरंतर जारी रहेगी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री पिछड़ा वर्ग स्व-रोजगार योजना में पिछले वित्त वर्ष में 111 करोड़ रूपये खर्च कर युवाओं को स्व-रोजगार से लगाया गया है। श्री चौहान ने प्रधानमंत्री फसल बीमा, मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि, समर्थन मूल्य पर अनाज खरीदी, स्व-रोजगार योजनाओं और मुख्यमंत्री असंगठित श्रमिक कल्याण योजना की जानकारी देते हुए अपील की कि 7 मई को अपनी ग्राम पंचायत में आयोजित विशेष ग्राम सभाओं में जरूर शामिल हों। उन्होंने श्रमिक बंधुओं से आग्रह किया कि विशेष ग्राम सभाओं में जाकर अपने पंजीयन का सत्यापन करायें और मुख्यमंत्री असंगठित श्रमिक कल्याण योजना का भरपूर लाभ उठायें। मुख्यमंत्री द्वारा सम्मानित विभूतियाँ मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा महाकुंभ में म.प्र. रामजी महाजन पिछड़ा वर्ग सेवा राज्य पुरस्कार-2015 से श्रीमती कान्ति पटेल, श्रीमती आशा साहू, श्रीमती माया विश्वकर्मा, श्रीमती अलका सैनी, श्रीमती बबीता परमार, श्रीमती यमुना कछावा, श्रीमती प्रीति सेन, सुश्री राजकुमारी कुसुम महदेले (जबलपुर), श्री सूरज सिंह मारण, डॉ जे.के. यादव, श्री राजेश दोडके, डॉ. भगवान भाई पाटीदार, श्री काशीराम यादव और श्री महेन्द्र कटियार को सम्मानित किया। इन विभूतियों को पुरस्कार स्वरूप एक-एक लाख रूपये, स्मृति चिन्ह, प्रशस्ति-पत्र, शॉल-श्रीफल भेंटकर सम्मानित किया गया। स्व. श्री नारायण सिंह डागोर का मरणोपरांत पुरस्कार उनकी धर्मपत्नी श्रीमती चन्द्रादेवी ने प्राप्त किया। पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीमती ललिता यादव ने समारोह की अध्यक्षता की। सांसद श्री लक्ष्मीनारायण यादव, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव, गृह एवं परिवहन मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह, महापौर श्री अभय दर्रे, बुन्देलखंड विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष डा. रामकृष्ण कुसमरिया, विधायक श्री शैलेन्द्र जैन, श्रीमती पारूल साहू, श्री हरवंश राठौर, श्री प्रदीप लारिया, श्री महेश राय, श्री हर्ष यादव, म.प्र. राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष श्री राधेलाल बघेल, पिछड़ा वर्ग तथा वित्त विकास निगम के अध्यक्ष श्री प्रदीप पटेल एवं अन्य स्थानीय जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 7 May 2018


anandi ben

  राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने आज उज्जैन में म.प्र पाटीदार समाज महिला संगठन के प्रान्तीय महाधिवेशन में कहा कि समाज में अच्छे काम कभी भी निरर्थक नहीं होते हैं। माताएं अपने स्वास्थ्य का खयाल रखें। अपनी बेटियों को पौष्टिक आहार दें एवं वर्ष में एक बार उनका हीमोग्लोबिन परीक्षण अवश्य करवायें, ताकि आने वाली पीढ़ी कुपोषण की शिकार नहीं हो। बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना का जिक्र करते हुए राज्यपाल ने कहा कि हर परिवार में बेटा-बेटी के साथ एक-समान व्यवहार होना चाहिये। बेटों की तरह बेटियों को भी खूब पढ़ायें और बेटे के समान ही ध्यान भी रखें। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि बच्चे के शारीरिक और मानसिक विकास में महिलाओं का महत्वपूर्ण योगदान है। माताएं अपने बच्चों को आठ वर्ष की आयु तक अच्छे संस्कार दें। विवाह समारोह में अनावश्यक धनराशि व्यय नहीं करें। बचत राशि से बेटे-बेटियों को पढ़ाई और काम-धंधे में लगायें ताकि परिवार और समाज का समुचित विकास हो सके। उन्होंने कहा कि समाज में घूंघट प्रथा बन्द होना चाहिये। महिलाएं अपने अधिकार को पहचानें। लड़कों के मुकाबले और लड़कियों की संख्या का अनुपात कम हो रहा है। श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा कि बाल विवाह जैसी कुरीति से बचना चाहिये। वयस्क होने पर ही बालक-बालिका का विवाह सम्पन्न कराया जाना चाहिये। उदाहरण देते हुए कहा कि उन्होंने स्वयं अपने भतीजे की कम उम्र में होने वाली शादी को रूकवाया था। अच्छे काम में थोड़ी तकलीफ जरूर आती है, परन्तु अच्छे काम करते रहना चाहिये। समाज में सुख-समृद्धि के लिये सबको मिलकर, संकल्प लेकर अच्छे काम के लिये आगे बढ़ते रहना चाहिये। म.प्र.पाटीदार समाज महिला संगठन की प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती पुष्पा पाटीदार ने कहा कि समाज में फैली कुप्रथाओं को दूर करने के लिये महाधिवेशन बुलाया गया है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में महिला सशक्तिकरण, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ जैसी अनेकों योजनाएं द्वारा महिलाओं सशक्तिकरण के लिये कार्य कर रहा है। सभी को इन योजनाओं का लाभ लेना चाहिये। कार्यक्रम में जिला पंचायत रतलाम की पूर्व अध्यक्ष श्रीमती निर्मला शंकर पाटीदार, गुजरात प्रान्त की साबरमती अहमदाबाद की पूर्व विधायक श्रीमती गीताबेन पटेल तथा पूर्व प्रान्ताध्यक्ष और जिला पंचायत इन्दौर की अध्यक्ष सुश्री कविता पाटीदार ने भी विचार व्यक्त किये। राज्यपाल श्रीमती पटेल ने इस अवसर पर महिला संगठन द्वारा प्रकाशित पुस्तक 'कल्याणी' का विमोचन किया गया। जिला पंचायत बुरहानपुर की अध्यक्ष श्रीमती गायत्री पाटीदार, इन्दौर की समाजसेवी एवं शक्ति पम्प इंडिया की संचालिका श्रीमती इंदिरा पाटीदार, कृषि उपज मंडी भोपाल की अध्यक्ष श्रीमती श्यामा भागीरथ पाटीदार, बुरहानपुर की पूर्व महापौर श्रीमती माधुरी अतुल पटेल, अहमदाबाद गुजरात के ओमिया कैम्पस की प्रोफेसर श्रीमती रूपलबेन पटेल, मां-बेटी सम्मेलन की प्रणेता श्रीमती जागृतिबेन पटेल, बदनावर की समाजसेवी श्रीमती श्यामगिरी पाटीदार और दूर-दराज से आये पाटीदार समाज के महिला-पुरूष उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 7 May 2018


शिवराज सिंह चौहान

मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने आज झाबुआ जिले के ग्राम सुतरेटी में असंगठित श्रमिक एवं तेंदूपत्ता संग्राहक सम्मेलन में कहा कि प्रदेश में फसल काटने, गिट्टी तोड़ने और हम्माली करने वाले श्रमिकों तथा ढ़ाई एकड़ से कम जमीन वाले किसानों को विभिन्न योजनाओं का भरपूर लाभ दिया जायेगा। राज्य सरकार बिना किसी भेदभाव के सभी जरूरतमंदों और गरीबों को जन-कल्याणकारी योजनाओं से लाभान्वित कर रही है। श्री चौहान ने इस मौके पर नर्मदा-झाबुआ सिंचाई परियोजना के लिये 2050.70 करोड़ रूपये स्वीकृत करने की घोषणा की। सम्मेलन में मुख्यमंत्री ने विभिन्न योजनाओं के पात्र हितग्राहियों को हित-लाभ एवं वनाधिकार पट्टों का वितरण किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि झाबुआ जिले में असंगठित श्रमिक कल्याण योजना में पंजीकृत 3 लाख 66 हजार गरीबों को जमीन का मालिक बनाया जाएगा। प्रत्येक पट्टे पर प्रधानमंत्री आवास और मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत मकान बनवाकर दिए जायेंगे। वर्ष 2022 तक सभी आदिवासियों को पक्के मकान बनवाकर दिये जायेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में गरीबों को मकान के लिए जमीन और बिजली प्राथमिकता के आधार पर दी जाएगी। श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार पंडित दीनदयाल के आदर्शो पर चलकर गरीबों के कल्याण के लिए कार्य कर रही है। प्रदेश में विगत एक अप्रैल से पंजीकृत श्रमिकों को 200 रुपये प्रति माह की दर से घरेलू बिजली दी जा रही है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भारत सरकार की आयुष्मान योजना का लाभ मध्यप्रदेश की जनता को भी दिलवाया जाएगा। साथ ही, गरीब बहनों को सम्मानजनक व्यवसाय के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने विभिन्न योजनाओं की विस्तार से जानकारी देते हुए नागरिकों से अपील की कि 7 मई को विशेष ग्राम सभा में अवश्य भाग लें। सभा में असंगठित मजदूरों के पंजीयन की सूची पढ़ी जायेगी। उन्होंने श्रमिकों से आग्रह किया कि अगर सूची में नाम छूट गया हो, तो विशेष ग्राम सभा में ही अपना नाम जुड़वाएँ। सम्मेलन में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने श्रमिकों, तेंदूपत्ता संग्राहकों एवं महुआ फूल बीनने वाले श्रमिकों को चरण पादुका, साड़ी और पानी की बॉटल का वितरण किया। विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को हित-लाभ भी वितरित किये। मुख्यमंत्री ने आदिवासी बोली की नुक्कड़ नाटक पुस्तिका ''पोरियों नी हन्देहो'' का विमोचन किया और नागरिकों को बच्चों को पढ़ाने, जल-संरक्षण, गाँव को सुंदर और स्वच्छ बनाने, घर में शौचालय बनाने, पर्यावरण संरक्षण के लिए पौधे लगाने और वृक्ष बचाने का संकल्प दिलवाया। कार्यक्रम में विधायक श्री कलसिंह भाबर और श्री शांतिलाल बिलवाल तथा राज्य लघु वनोपज संघ के अध्यक्ष श्री महेश कोरी उपस्थित थे।

Dakhal News

Dakhal News 5 May 2018


अलीराजपुर

  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि अलीराजपुर ने खुले में शौच मुक्ति के अभियान में प्रशंसनीय कार्य किया है। इस सम्मान को बनाये रखने का प्रयास जारी रखे। श्री चौहान अलीराजपुर में खुले में शौच से मुक्ति के उत्सव एवं असंगठित श्रमिक सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि नर्मदा उद्वहन सिंचाई योजना से वर्ष 2020 सें क्षेत्र में भरपूर सिंचाई हो सकेगी। 52 करोड़ के विभिन्न निर्माण का हुआ शिलान्यास और लोकार्पण श्री चौहान ने 52 करोड़ 53 लाख 86 हजार रुपये लागत के 20 विभिन्न निर्माण कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने खुले में शौच मुक्ति के लिये जिले के प्रयासों की पुस्तक का विमोचन भी किया। श्री चौहान ने जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती अनीता चौहान को खुले में शौच से मुक्ति का प्रमाण-पत्र भी प्रदान किया। साथ ही ओडीएफ कार्य में उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारी-कर्मचारियों सहित मैदानी स्टॉफ को सम्मानित किया। मुख्यमंत्री ने विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को हित-लाभ-पत्र भी बाँटे। मुख्यमंत्री श्री चौहान का पारम्परिक आदिवासी झुलड़ी और तीर-कमान भेंट कर स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि आजीविका मिशन के माध्यम से गठित समूहों को मिलने वाले बैंक ऋण राशि की 3 प्रतिशत ब्याज राशि राज्य सरकार देगी। उन्होंने कहा कि होशंगाबाद जिले की महिलाओं द्वारा शुरू किया गया। मुर्गी-पालन और मुर्गी दाना कारखाना जैसा प्रयास अलीराजपुर में भी हों। मुख्यमंत्री ने कहा कि सौभाग्य योजना का लाभ भी जिले के सभी लोगों को पहुँचाया जाये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने असंगठित मजदूरों के पंजीकृत व्यक्तियों की सूची का ग्रामसभा में वाचन के लिये उचित प्रबंध करने को कहा। उन्होंने कहा कि महुआ फूल बीनने वालों को चप्पल-जूते और पानी की कुप्पी भी अब उपलब्ध करवाई जा रही है। मुख्यमंत्री ने समारोह में नागरिकों को बच्चों को अनिवार्य रूप से स्कूल भेजने, ग्रामों को स्वच्छ रखने, पानी रोकने और पौध-रोपण करने का संकल्प दिलवाया। विधायक श्री नागर सिंह चौहान ने भी समारोह को संबोधित किया। यूनीसेफ की सुश्री मारिया ने कहा कि खुले में शौच मुक्ति के अभियान में अलीराजपुर जिले में सराहनीय काम हुआ है। व्यवहार परिवर्तन कर बड़े बदलाव में समुदाय ने बड़ा प्रयास किया है। श्रम राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री बालकृष्ण पाटीदार और असंगठित शहरी एवं ग्रामीण कर्मकार कल्याण मण्डल अध्यक्ष श्री सुल्तान सिंह शेखावत भी उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 5 May 2018


anand vibhag

सकारात्मक विचार ही सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करते हैं :शिवराज  भोपाल में वेद मर्मज्ञ एवं प्रखर आध्यात्मिक गुरू स्वामी सुखबोधानन्द ने कहा है कि खुशी के लिये काम करने से खुशी नहीं मिलेगी, बल्कि खुश होकर काम करने से खुशी मिलेगी। यंत्रवत जीवन और प्रतिक्रिया करने की प्रवृत्ति से मुक्ति पाना जरूरी है। उन्होंने कहा कि परेशानियों और समस्याओं को सकारात्मक दृष्टि से देखने पर वे भी गुरू बन जाती हैं। स्वामी सुखबोधानन्द ने आज यहां प्रशासन अकादमी में आनन्द विभाग के अंतर्गत राज्य आनन्द संस्थान द्वारा आयोजित 'आनन्द व्याख्यान' में यह विचार व्यक्त किये। मन की भीतर की स्थिति है आनन्द मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने अध्यक्षीय संबोधन में कहा कि सकारात्मक विचार ही सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करते हैं। उन्होंने कहा कि सभी प्रकार का दर्शन आनन्द को प्राप्त करने का मार्ग बताता है। साम्यवाद और पूंजीवाद ने भी आनन्द प्राप्ति का रास्ता दिखाया था, लेकिन कालांतर में सही साबित नहीं हुआ। मुख्यमंत्री ने कहा कि आनन्द और सुख में भेद नहीं समझने के कारण ऐसा होता है। उन्होंने कहा कि आनन्द मन की भीतर की स्थिति है, जबकि सुख बाहरी परिस्थितियों से निर्मित होता है। श्री चौहान ने कहा कि केवल अधोसंरचनाएं खड़ी करने से आनन्द नहीं मिलता। अर्थपूर्ण जीवन जीना महत्वपूर्ण है। समृद्ध लोग भी दुखी रहते हैं और अभाव में रहने वाले भी खुश रहते हैं। इसलिये मनोदशा को सकारात्मक बनाने की कला सीखना होगा। प्रत्येक क्षण में है आनन्द स्वामी सुखबोधानंद ने आनन्द की चारित्रिक विशेषताओं और जीवन में उसकी उपस्थिति पर विस्तार से चर्चा की। उन्होंने कहा कि आनन्द को भविष्य में देखने की प्रवृत्ति और आदत बना लेने से निराशा और दुख ही हाथ आयेगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान ही सब कुछ है, इसलिए आनन्द भी वर्तमान में ही उपस्थित है। यह मन के भीतर है। उन्होंने कहा कि जब सब दरवाजे बंद हो जाते हैं, तब ईश्वर नया द्वार खोल देता है। इसलिए प्रत्येक क्षण में आनन्द है। प्रत्येक पल में जीवन है। प्रत्येक पल ऊर्जावान है। वर्तमान में भूतकाल का हस्तक्षेप नहीं होने दें स्वामीजी ने कहा कि राग और द्वेष का रूपांतरण प्रेम में करने के लिए भक्ति की जरूरत पड़ती है। इसलिए भक्ति प्रमुख तत्व है। स्वामी ने कहा कि भविष्य माया है। सिर्फ वर्तमान ही सच है और वर्तमान में ही आनन्द व्याप्त है। उसकी अनुभूति करने की आवश्यकता है। आश्चर्य तत्व की प्रधानता होना चाहिए। उन्होने कहा कि वर्तमान में भूतकाल का हस्तक्षेप नहीं होने दें, इसके प्रति भी सचेत रहें। आनंद का दूसरा स्वरूप ऊर्जा है। आनन्द विभाग के मंत्री श्री लाल सिंह आर्य ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान निरंतर नवाचार करने वाले मुख्यमंत्री हैं। आनन्द विभाग की स्थापना इसका उदाहरण है। उन्होंने बताया कि बहुत कम समय में आनन्द विभाग की गतिविधियों का प्रदेशव्यापी विस्तार हुआ है। पूरे देश में इसकी सराहना हो रही है। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव आनन्द विभाग श्री इकबाल सिंह बैंस और आनन्द क्लबों के सदस्य उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 3 May 2018


lalsingh arya

राज्य मंत्री श्री लाल सिंह आर्य ने की अनुसूचित जाति कल्याण विभाग की समीक्षा अनुसूचित-जाति कल्याण राज्य मंत्री लाल सिंह आर्य ने कहा है कि छात्रावासों के विद्यार्थियों को सप्ताह में एक स्थान का भ्रमण अवश्य करवायें। उन्होंने कहा कि बच्चों को पास के औद्योगिक क्षेत्र, मेडिकल अथवा इंजीनियरिंग कॉलेज का भ्रमण अवश्य करवाया जाये। राज्य मंत्री श्री आर्य आज भोपाल में अनुसूचित-जाति कल्याण विभाग की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में प्रमुख सचिव श्री संजय बन्दोपाध्याय और आयुक्त श्री आनंद शर्मा उपस्थित थे। उत्कृष्ट काम करने वाले अधिकारी सम्मानित राज्य मंत्री श्री आर्य ने समग्र रूप से अच्छे काम करने वाले 5 विभागीय अधिकारियों को सम्मानित किया। उत्कृष्ट कार्य के लिये इंदौर की श्रीमती मोहिनी श्रीवास्तव, छिन्दवाड़ा की श्रीमती शिल्पा जैन, दमोह की सुश्री शिखा सोनी, सतना के श्री अभिषेक सिंह और सीहोर श्री हरजीत सिंह को प्रशस्ति-पत्र दिये। श्री आर्य ने कहा कि छात्रावासों में स्वच्छता पर विशेष ध्यान दिया जाये। पर्याप्त डस्टबिन का उपयोग किया जाये। पेयजल उपलब्धता की स्थिति से कलेक्टर, पीएचई अधिकारी अथवा विभाग प्रमुख को अवगत करायें। निर्माण कार्यों की प्रगति की समीक्षा स्वयं कर कलेक्टर को वस्तु-स्थिति से अवगत करवायें। जिन छात्रावासों में सी.सी. टी.व्ही. कैमरे लगे हैं, उन्हें चालू हालत में रखा जाये। सभी छात्रावासों में टी.व्ही. की उपलब्धता को जल्द पूरा किया जाये। उन्होंने संभागीय अधिकारियों को समय-समय पर जिला अधिकारियों की बैठक लेने को कहा। उन्होंने कहा कि बैठक के जरिये समस्या और सुझाव सामने आते हैं। राज्य मंत्री श्री आर्य ने निर्देश दिये कि छात्रावासों के लिये सामग्री का क्रय करने के बाद उसका उपयोग भी करें। बच्चों की संख्या और सामग्री की जानकारी मुख्यालय पर उपलब्ध रहे। आवश्यकता अनुसार गुणवत्तायुक्त सामग्री ली जाये और अग्रिम सामग्री का क्रय नहीं किया जाये। उन्होंने कहा कि अगले सप्ताह निर्माण एजेंसियों की बैठक की जाये। उन्होंने निर्देश दिये कि प्रगतिरत निर्माण कार्यों को पूरा कर विकास यात्रा के दौरान उनके शिलान्यास एवं लोकार्पण की तैयारी करें। साथ ही, निर्माण कार्यों की अद्यतन जानकारी 7 दिन के अंदर उपलब्ध करवायें। ज्ञानोदय के 23 विद्यार्थी जेईई में चयनित शासकीय ज्ञानोदय विद्यालयों में अध्ययनरत 58 में से 23 अनुसूचित-जाति के विद्यार्थियों का जेईई मेन्स में चयन हुआ है। इसमें भोपाल के 6, ग्वालियर, उज्जैन और शहडोल के 3-3, होशंगाबाद, सागर और मुरैना के 2-2 तथा इंदौर और जबलपुर से एक-एक विद्यार्थी का चयन हुआ है। श्री आर्य ने कहा कि सभी तरह के विभागीय टेण्डर मई माह में करवा लिये जायें। दी गई राशि को प्लान कर उपयोग करें। उपयोग नहीं होने पर राशि वापस दें, ताकि दूसरे जिले की आवश्यकता पूरी की जा सके और बजट लेप्स नहीं हो। उन्होंने छात्रावासों में प्रवेशोत्सव मनाने की तारीख तय करने के निर्देश भी दिये। साथ ही कहा कि इसके लिये प्रवेश समिति की बैठक कर ली जाये। पालकों को बुलवाकर मंत्रियों की उपस्थिति में प्रवेशोत्सव मनाया जायेगा। श्री आर्य ने कहा कि रिजल्ट के बाद दसवीं और बारहवीं कक्षा में 70 प्रतिशत या उससे अधिक अंक से उत्तीर्ण अनुसूचित-जाति और अनुसूचित-जनजाति के छात्रों की सूची बनाकर भेजी जाये। मुख्यमंत्री की उपस्थिति में उनके लिये एक विशेष कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा।  

Dakhal News

Dakhal News 3 May 2018


फ्रीडम फाइटर केयूर भूषण

रायपुर में स्वतंत्रता संग्राम सेेनानी और पूर्व सांसद केयूर भूषण का गुरुवार शाम निधन हो गया। केयूर भूषण पिछले कुछ दिनों से अस्‍वस्‍थ थे और उनका अस्पताल में उपचार किया जा रहा था। केयर भूषण दो बार रायपुर से सांसद रहे चुके थे। उनकी पृथक छत्तीसगढ़ के आंदोलन में भी महत्‍वपूर्ण भागीदारी रही। जानकारी के अनुसार उन्‍होंने 80 - 90 के दशक में रायपुर का लोकसभा में प्रतिनिधित्व किया। वे दो बार कांग्रेस के टिकट पर रायपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़े।

Dakhal News

Dakhal News 3 May 2018


shivraj singh

मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिये हैं कि सभी जिलों में आवश्यकतानुसार नवीन उपार्जन केन्द्र खोले जायें। किसानों को भुगतान समय से हो। उपार्जन कार्य की लगातार मानीटरिंग की जाये। उपार्जन के दौरान किसान हितैषी दृष्टिकोण रखा जाये। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज यहाँ वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से प्रदेश में चल रहे गेहूँ, चना, मसूर और सरसों के उपार्जन की समीक्षा कर रहे थे। इस अवसर पर वित्त मंत्री श्री जयंत मलैया, वन मंत्री डॉ. गौरीशंकर शेजवार, सहकारिता राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री विश्वास सारंग और मुख्य सचिव श्री बी.पी. सिंह भी उपस्थित थे।   मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि किसानों को समय से एसएमएस मिले तथा खरीदी केन्द्र पर उपार्जन सुनिश्चित किया जाये। उपार्जन के बाद शीघ्र परिवहन किया जाये। यह सुनिश्चित करें कि किसानों को खरीदी के तीसरे दिन भुगतान मिले। किसी कारण से एसएमएस से सूचना के बाद निर्धारित दिन पर किसान नहीं आ पाता है तो उन्हें दोबारा एसएमएस किया जाये। खरीदी, परिवहन और किसान को भुगतान की लगातार मानीटरिंग की जाये। खरीदी केन्द्रों पर पर्याप्त संसाधन और उपकरण हों। यह सुनिश्चित करें कि बोरे के निर्धारित वजन के बराबर ही कटौती की जाये। उपार्जन केन्द्रों पर छाया और पीने के पानी की व्यवस्था सुनिश्चित करें। उपार्जन केन्द्रों पर एक प्रशासनिक अधिकारी की ड्यूटी लगायें। मण्डियों में आवश्यकतानुसार मजदूरी की दरें बढ़ायें। जिन उपार्जन केन्द्रों पर नाफेड के सर्वेयर नहीं हो, वहाँ कृषि, खाद्य और सहकारिता की समिति बनाकर एफ.ए.क्यू गुणवत्ता का उपार्जन करें। ओला प्रभावित और सूखे से प्रभावित किसानों को राहत राशि मिलना शेष नहीं रहे। उपार्जित खाद्यान्न के परिवहन में देरी नहीं हो। आवश्यकतानुसार मण्डियों में विद्युत चलित ट्रेडिंग मशीनें लगायें। मुख्यमंत्री ने कहा कि कलेक्टर उपार्जन कार्य के साथ भुगतान की स्थिति की प्रतिदिन समीक्षा करें। प्रभारी मंत्री भी प्रतिदिन उपार्जन कार्य की मानीटरिंग करेंगे। खरीदी, परिवहन, भुगतान और कैश की प्रतिदिन रिपोर्ट लें। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कृषि समृद्धि योजना के तहत वर्ष 2016-17 की प्रोत्साहन राशि अधिकांश किसानों के खातों में पहुँच गई है। वर्ष 2017-18 की प्रोत्साहन राशि 265 रूपये प्रति क्विंटल गेहूँ तथा चना, मसूर और सरसों में 100 रूपये प्रति क्विंटल की दर से आगामी 10 जून को किसानों के खातों में डाली जायेगी। बताया गया कि उपार्जन के लिये किसानों को एसएमएस भेजने की विकेन्द्रीकृत व्यवस्था की गई है। खरीदी केन्द्रों पर तौल व्यवस्था का सुदृढ़ीकरण किया गया है। प्रदेश में अब तक 45 लाख मीट्रिक टन गेहूँ का उपार्जन किया गया है। गेहूँ, चना, मसूर, सरसों को मण्डियों में बेचने वाले किसानों को भी मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना में प्रोत्साहन राशि दी जायेगी। इन किसानों का पंजीयन किया गया है। बैठक में संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 27 April 2018


kirar samaj

किरार धाकड़ अ.भा. युवक-युवती परिचय सम्मेलन सम्पन्न लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन ने महिलाओं के विरुद्ध हो रहे अपराधों पर गहरी चिंता व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि यदि इन अपराधों पर कठोर नियंत्रण स्थापित नहीं किया गया, तो मनुष्य का मानवता पर से विश्वास उठ जायेगा। उन्होंने कहा कि इस स्थिति से निपटने के लिये जरूरी है कि कानून में कठोर दण्ड के प्रावधान के साथ ही सभी धर्म और समाज एकजुट होकर इस दिशा में ठोस प्रयास करें। लोकसभा अध्यक्ष आज किरार धाकड़ अखिल भारतीय युवक-युवती परिचय सम्मेलन में बोल रही थीं। श्रीमती महाजन ने कहा कि समाज के उत्थान के लिये आवश्यक है कि स्त्री और पुरुष दोनों ही समान रूप से सशक्त हों। उन्होंने कहा कि समाज की कुरीतियों को समाज के द्वारा ही खत्म किया जा सकता है। सभी समाजों में एकता बहुत जरूरी है। बिखराव हमेशा असुरक्षा का भाव पैदा करता है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि बेटी का अपमान करने वाला समाज कभी तरक्की नहीं कर सकता। किसी भी स्तर पर बेटी का अपमान सहन नहीं किया जायेगा। केन्द्र सरकार द्वारा दुराचारियों को मृत्यु दण्ड देने का अध्यादेश लागू करने के लिये प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का आभार व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि स्थिति में प्रभावी सुधार अवश्य होगा। श्री चौहान ने कहा कि उनके जीवन का लक्ष्य ही मिशन महिला सशक्तिकरण है। इसलिये प्रदेश में राज्य सरकार ने बेटियों को घर और समाज के लिये वरदान के रूप में प्रतिष्ठापित करने का प्रयास किया है। श्री चौहान ने कहा कि कुरीतियों को समाप्त करने के लिये समाज को पूरी ताकत के साथ जन-जागृति के प्रयास करने होंगे। दहेज प्रथा समाप्त करने, नशामुक्ति और पर्यावरण संरक्षण के लिये संकल्पित होकर काम करना होगा। दहेज नहीं लेने का संकल्प लें युवा : श्रीमती साधना सिंह अखिल भारतीय किरार क्षत्रिय महासभा की राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती साधना सिंह ने आगंतुकों का स्वागत करते हुए कहा कि समाज संगठित रहने पर ही सशक्त हो सकता है। सम्मेलन के आयोजन की सराहना करते हुए उन्होंने समाज के युवाओं का आव्हान किया कि विवाह में दहेज नहीं लेने का संकल्प लें, सामूहिक विवाह की परम्परा को अपनायें, इससे समय और धन, दोनों की बचत होगी। श्रीमती साधना सिंह ने महासभा की गतिविधियों की जानकारी देते हुए बताया कि मेधावी विद्यार्थियों को सम्मानित किया जायेगा। सिविल सर्विसेस के प्रतिभागियों की एक माह की कोचिंग की फीस की पूर्ति महासभा द्वारा की जायेगी। उन्होंने बताया कि महासभा द्वारा सामूहिक विवाह सम्मेलन में 11 जोड़ों का नि:शुल्क विवाह करवाया जायेगा। किरार समाज की ओर से लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन का शॉल, श्रीफल और स्मृति-चिन्ह भेंट कर स्वागत किया गया। महासभा की राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती साधना सिंह की पुस्तक 'हमारा समाज'' और श्री प्रदीप चौहान द्वारा सम्पादित परिचय स्मारिका और 'किरार दर्पण'' मासिक का विमोचन किया गया। प्रारंभ में कन्या-पूजन हुआ। सुश्री सुहासिनी जोशी ने मध्यप्रदेश गान की प्रस्तुति दी। शहीदों को मरणोपरांत सम्मान प्रदान किया गया। महासभा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्षों का अभिनंदन कर मेधावी विद्यार्थियों तथा अन्य प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया। संचालन भोपाल नगर निगम के अध्यक्ष श्री सुरजीत सिंह चौहान ने किया।

Dakhal News

Dakhal News 23 April 2018


sahu samaj

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी समुदायों से अपील की है कि वे अपने-अपने समुदायों में युवाओं को कैरियर  और शिक्षा संबंधी परामर्श देने के लिये प्रकोष्ठ बनाएं। उन्होंने कहा कि पढ़ाई के साथ-साथ स्वरोजगार पर भी ध्यान देने की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री आज यहां स्थानीय रवीन्द्र भवन में  मध्यप्रदेश साहू समाज द्वारा आयोजित राष्ट्रीय युवक-युवती परिचय सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बेटियों के साथ दुराचार करने वालों को फांसी देने का कानून लागू करने के ऐतिहासिक फैसलों के लिये प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी को साहू समाज की ओर से धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी के नेतृत्व में देश निरंतर आगे बढ़ रहा है। अगले कुछ सालों में देश का पूर्णत:  कायाकल्प हो जाएगा। श्री चौहान ने कहा कि साहू समाज मिलकर नशामुक्ति और अन्य सामाजिक बुराइयों के खिलाफ अभियान चलाए। समाज के सदस्य समाज कल्याण के किसी न किसी कार्य से जुड़ें।  साहू समाज के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री का अभिनंदन किया। मुख्यमंत्री ने साहू समाज की पत्रिका का विमोचन किया।  

Dakhal News

Dakhal News 23 April 2018


विद्या भारती मध्यक्षेत्र

    मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि संस्कारवान और समयानुकूल शिक्षा-शिक्षण के लिये शोध कार्य आवश्यक है। शिक्षा के उद्देश्यों, ज्ञान, कौशल और नागरिक संस्कार देने के लिये निरंतर अनुसंधान किया जाना चाहिये। उन्होंने कहा कि सैद्धांतिक शिक्षा के साथ व्यवहारिक शिक्षा भी जरूरी है। आजीविका को भी शिक्षा से जोड़ने के प्रयास समय की जरूरत है। श्री चौहान आज विद्या भारती मध्यक्षेत्र के प्रशिक्षण एवं शोध संस्थान के भूमि-पूजन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि शिक्षा केवल ज्ञान और आजीविका का माध्यम नहीं है। संस्कारवान नागरिक तैयार करना भी शिक्षा की जिम्मेदारी है। अपने लिये नहीं, देश के लिये जीने वाले संस्कारयुक्त नागरिकों को तैयार करने में विद्या भारती के प्रयासों का उल्लेख करते हुये उन्होंने कहा कि आर्थिक रूप से कमजोर क्षेत्रों में भी विद्या भारती के संस्थान अच्छी शिक्षा देते हैं। संस्थान के विद्यालयों, शिक्षा की गुणवत्ता की सराहना करते हुये श्री चौहान ने कहा कि विद्या भारती, समाज धारित और पोषित संस्थान है। सहयोग में मात्रा नहीं, श्रद्धा और सहयोग भाव महत्वपूर्ण होता है। उन्होंने रामचरित्र मानस के प्रसंग के उल्लेख में बताया कि सेतु बांध के निर्माण में महावीर वानरों के साथ ही रेत के कुछ कण लाने वाली गिलहरी के सहयोग को भी भगवान श्रीराम ने बहुत महत्वपूर्ण बताया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष, विद्या भारती शिक्षा संस्थान श्री गोविंद शर्मा ने कहा कि विद्या भारती हर क्षेत्र के पहुँच और साधन विहीन क्षेत्रों में उच्चतर माध्यमिक स्तर तक शिक्षा देने का कार्य कर रही है। अगले शिक्षा सत्र से महाविद्यालयीन शिक्षा का कार्य भी संस्थान द्वारा प्रारंभ किया जायेगा। राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं में विद्या भारती संस्थान के खिलाड़ी विद्यार्थियों ने 50 स्वर्ण पदक सहित 150 पदक जीते हैं। विद्या भारती को सर्वाधिक अनुशासित टीम का पदक भी प्राप्त हुआ है। कार्यक्रम में बताया गया कि शोध केन्द्र के निर्माण पर 3.5 करोड़ रुपये का व्यय अनुमानित है। कुल 24 हजार वर्ग फिट में बनने वाले इस बहुमंजिला भवन में 12 आवासीय-कक्ष, 2 सभा-कक्ष, भोजन-कक्ष, पुस्तकालय सहित शिक्षण-प्रशिक्षण केन्द्र की सभी सुविधाएँ उपलब्ध होंगी। इस अवसर पर विद्या भारती शिक्षा संस्थान के सह संगठन मंत्री श्री रामअरावकर, मध्यप्रांत के अध्यक्ष श्री सुरेश गुप्ता सहित शिक्षा संस्थान के पूर्व, वर्तमान पदाधिकारी और कार्यकर्ता उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 18 April 2018


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि किसानों को उनके पसीने की पूरी कीमत दिलाने के लिये मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना लागू की गई है। इसमें समर्थन मूल्य पर अथवा उससे अधिक मूल्य पर गेह