विशेष


बोबड़े cji

  बोबड़े को अगला CJI बनाने की सिफारिश की   वर्तमान चीफ जस्टिस गोगोई ने केंद्र सरकार को चिट्ठी लिखकर जस्टिस एस ए बोबड़े को नया CJI नियुक्त किए जाने की सिफारिश की है  | रंजन गोगोई ने 3 अक्टूबर 2018 को देश के 46 वें मुख्य न्यायाधीश के तौर पर शपथ ग्रहण की थी  |अब उनका बतौर चीफ जस्टिस कार्यकाल खत्म होने में एक महीने से भी कम का वक्त बाकी रह गया है |   सुप्रीम कोर्ट के वर्तमान चीफ जस्टिस रंजन गोगोई का कार्यकाल 17 नवंबर को खत्म होने जा रहा है  | इसके चलते नया चीफ जस्टिस नियुक्त करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है इसी कड़ी में परंपरा के अनुसार वर्तमान चीफ जस्टिस गोगोई ने केंद्र सरकार को चिट्ठी लिखकर जस्टिस एस ए बोबड़े को नया CJI नियुक्त किए जाने की सिफारिश की है  | रंजन गोगोई ने 3 अक्टूबर 2018 को देश के 46 वें मुख्य न्यायाधीश  के तौर पर शपथ ग्रहण की थी  बतौर चीफ जस्टिस अपने कार्यकाल के दौरान रंजन गोगोई ने कई ऐतिहासिक मामलों की सुनवाई की है  | इसमें अयोध्या जमीन विवाद, एनआरसी और जम्मू कश्मीर याचिकाएं सहित अन्य महत्वपूर्ण मसले शामिल रहे हैं  | वे अपने कार्यकाल के अंतिम वक्त में ऐतिहासिक मामले अयोध्या राम जन्मभूमि विवाद की सुनवाई कर रहे हैं  |  गोगोई ने इस मामले का निर्णय अपने कार्यकाल में देने के लिए 40 दिनों तक रोजाना केस की सुनवाई की  |  18 अक्टूबर को आखिरकार इस मामले की सुनवाई पूरी हो चुकी है और गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच जजों की बेंच ने फैसला सुरक्षित ले लिया है  |  15 नवंबर के पहले इस मामले में ऐतिहासिक फैसला आने की संभावना जताई जा रही है  |     

Dakhal News

Dakhal News 18 October 2019


Ayodhya case

  रामजन्मभूमि विवाद पर सुनवाई पूरी सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा   सुप्रीम कोर्ट में ऐतिहासिक रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद की सुनवाई पूरी हो गई है  | बुधवार को इस सुनवाई का 40वां दिन और अंतिम दिन था हिंदू पक्ष की ओर से निर्मोही अखाड़ा, हिंदू महासभा, रामजन्मभूमि न्यास की ओर से दलीलें रखी गईं तो वहीं मुस्लिम पक्ष की तरफ से राजीव धवन ने अपनी दलीलें रखीं | सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है  |   सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या विवाद की सुनवाई खत्म हो गई है.... सबसे आखिर में मुस्लिम पक्ष की ओर से दलीलें रखी गईं  अब सुप्रीम कोर्ट ने लिखित हलफनामा, मोल्डिंग ऑफ रिलीफ को लिखित में जमा करने के लिए तीन दिन का समय दिया है.... जस्टिस चंद्रचूड़ ने कहा कि नक्शे से लगता है कि रामचबूतरा अंदर था...  इसपर राजीव धवन ने कहा कि दोनों ओर कब्रिस्तान है  | राजीव धवन ने कहा कि चबूतरा भी मस्जिद का हिस्सा है, सिर्फ इमारत ही नहीं बल्कि पूरी जगह ही मस्जिद का हिस्सा है  | उन्होंने कहा कि वो मस्जिद थी, हमारी थी और हमें पुनर्निर्माण का अधिकार है, इमारत भले ही ढहा दी गई लेकिन मालिकाना हक हमारा ही है  | चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने मुस्लिम पक्ष को ASI का नक्शा समझाने के लिए कहा इस बीच बहस के दौरान नक्शा फाड़ने की बात वायरल हो गई...मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन ने कहा कि ये वायरल हो गया है कि मैंने कोर्ट में नक्शा फाड़ा, लेकिन मैंने ये कोर्ट के आदेश पर किया  | मैंने कहा था कि मैं इसे फेंकना चाहता हूं तब चीफ जस्टिस ने कहा कि तुम इसे फाड़ सकते हो  | इसपर चीफ जस्टिस ने कहा कि हमने कहा था कि अगर आप फाड़ना चाहें तो फाड़ दें  |पीएन मिश्रा ने सुनवाई में ट्रैफन थेलर और निकोलो मनुची जैसे 16वीं सदी में आए विदेशी यात्रियों के वृतांत का ज़िक्र किया. जिसमें मन्दिर का तो ज़िक्र है पर मस्जिद का नहीं है, ब्रिटिश गजेटियर में भी राममन्दिर का ही ज़िक्र है | इस दौरान जस्टिस बोबड़े ने क्रोनोलॉजी बताने को कहा, तो जस्टिस चंद्रचूड़ ने लिमिटेशन का सवाल उठाया  |पीएन मिश्रा ने कहा कि 1934 में हमारे पूजा के अधिकार पर पहला हमला हुआ इसके बाद इस केस की सुनवाई पूरी हुई  सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है  |

Dakhal News

Dakhal News 16 October 2019


Lokayukta Raid

  मध्य प्रदेश में अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई लोकायुक्त ने किया काली कमाई का खुलासा     इंदौर में पदस्थ सहायक आबकारी आयुक्त आलोक खरे के यहाँ  लोकायुक्त पुलिस ने छापामारी की तो उसकी बेहिसाब संपत्ति देखकर जांच करने वालों के भी होश उड़ गए  |  इस अधिकारी ने करप्शन का ऐसा खेल खेला कि इसका परिवार सौ करोड़ से ज्यादा की मिलकियत का मालिक बन गया  | लोकायुक्त पुलिस की माने तो यह मध्यप्रदेश का सबसे बड़ा खुलासा है | जाँच पूरी होने पर इसकी खुल संपत्ति डेढ़ सौ करोड़ के आसपास बैठेगी |    ज्यों ज्यों छापे की कार्यवाही आगे बढ़ रही थी  | आलोक खरे की असलियत भी सामने आ रही थी भोपाल, रायसेन, इंदौर, ग्वालियर और छतरपुर स्थित कई ठिकानों पर लोकायुक्त पुलिस की टीमों ने छापा मारा  | प्रारम्भिक तौर पर  पड़ताल में खरे के पास करोड़ों की चल-अचल संपत्ति का खुलासा हुआ है  ... लेकिन शाम होते होते करोड़ का आंकड़ा सौ करोड़ के पार चला गया  | लोकायुक्त की जांच टीमों को फार्म हाउस, आलीशान बंगले, कई प्लॉट, कृषि भूमि, ऑफिस, लग्जरी कार, 79 लाख रुपए कीमत का सोना, 6 लाख रुपए कीमत की चांदी एवं 15 लाख रुपए नकद सहित करोड़ों रुपए मूल्य की चल-अचल संपत्ति के दस्तावेज मिले हैं  |  लोकायुक्त पुलिस की इस सबसे बड़ी रेड में खरे के पास भोपाल-रायसेन में 110 एकड़ जमीन है | इसमें से 70 एकड़ रायसेन में है  | रायसेन शहर से सटे ग्राम मासेर और डाबरा-इमलिया में लग्जरी फार्म हाउस बना रखे हैं, जिनकी ड्रोन और सीसीटीवी कैमरों से निगरानी होती है  |   मासेर में फार्म हाउस के गेट पर छह लेयर वायरिंग डालकर करंट छोड़ा गया था, इसलिए लोकायुक्त टीम को गेट खुलवाने में मशक्कत करनी पड़ी  इनके अलावा 16 बैंक अकाउंट आलोक खरे व 22 उनकी पत्नी  मीनाक्षी खरे के नाम पर एसबीआई, आईसीआईसीआई व बैंक ऑफ इंडिया के मिले  सभी अकाउंट व लॉकर को सीज कर लिया गया है  | धार जिले में आबकारी अधिकारी और एक आरटीआई कार्यकर्ता की कथित बातचीत जिसमें मंत्री व विधायकों को शराब ठेकेदार पैसा दिए जाने को लेकर मचे बवाल की जांच यह करप्ट शिकारी आलोक खरे ही कर रहा था | भ्रष्टाचार के मामले की जांच करने वाले अफसर का खुद भ्रष्टाचार के मामले में फंसने को लेकर दिनभर चर्चा चलती रही  | लोकायुक्त पुलिस का कहना है  इस अधिकारी के पूरे कार्यकाल की तन्खा भी जोड़ ली जाए तो वो एक करोड़ रुपये के आसपास होती है | इस शक्श के बारे में लोकयुक्त को लंबे समय से शिकायत मिल रही थी अपनी जांच में लोकायुक्त पुलिस ने पाया की यह अपनी काली कमाई को अपनी पत्नी की कृषि आय के रूप में दिखाता था |   

Dakhal News

Dakhal News 16 October 2019


narayan bjp wapasi

  नारायण बोले- मैं तो कांग्रेस में कभी गया ही नहीं नारायण ने किया कमलनाथ का मैनेजमेंट ध्वस्त   मुख्यमंत्री कमलनाथ को झटका देते हुए मैहर विधायक नारायण त्रिपाठी ने अपना पाला फिर से बदल दिया है  |  विधायक त्रिपाठी पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा के साथ भारतीय जनता पार्टी के कार्यालय पहुंचे और ऐलान किया कि वो कभी कांग्रेस में गए ही नहीं थे    भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा त्रिपाठी कहीं नहीं गए थे,वह बीजेपी में थे, हैं और रहेंगे |   मुख्यमंत्री कमलनाथ के जिस मैनेजमेंट को लोग लोहा मानते हैं  उसे नारायण त्रिपाठी ने ध्वस्त कर दिया है  | पिछले दिनों मुख्यमंत्री कमलनाथ से प्रभावित होकर कांग्रेस में गए बीजेपी विधायक अब वापस कांग्रेस के साथ हो लिए हैं  विधायक नारायण त्रिपाठी  पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा के साथ भोपाल में बीजेपी मुख्यालय पहुंचे  | यहां उन्होंने कांग्रेस को जमकर कोसा  |  उन्होंने कहा कि, "कांग्रेस दिशाहीन पार्टी है  | कोई नेतृत्व नहीं है, कोई सोच नहीं है मैं भाजपा से अलग नहीं हुआ था  | मैं मैहर को जिला बनाने के लिए सीएम कमलनाथ से संपर्क में था  |  सरकार किसी की रहे, क्षेत्र विकास के लिए हर नेता को मुख्यमंत्री से मिलना होता है  इसी संबंध में मैं सीएम कमलनाथ के संपर्क में था  |    भाजपा अध्यक्ष राकेश सिंह ने भी साफ कर दिया कि, नारायण त्रिपाठी भारतीय जनता पार्टी में ही हैं  | भाजपा के सभी विधायक एक हैं सबके सामने विधायक नारायण त्रिपाठी ने साफ कर दिया है कि कांग्रेस दिशाहीन है कांग्रेस प्रलोभन की राजनीति नहीं कर पाएगी सीएम से मिलने का मतलब ये नहीं होता है कि वो उनकी पार्टी में शामिल हो गए हैं  वहीं सरकार गिराने से जुड़े सवाल पर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने फिर से दोहराया कि कमलनाथ सरकार अपने अंतर्कलह से गिरेगी   वहीं उन्होंने साफ कर दिया कि नारायण त्रिपाठी झाबुआ उपचुनाव में पार्टी के लिए भी काम करेंगे  |   पिछले दिनों विधानसभा में दंड विधि संशोधन विधेयक पर वोटिंग के दौरान बीजेपी के दो विधायकों ने  पार्टी लाइन से हटकर कमलनाथ सरकार के पक्ष में वोटिंग की थी | इनमें से एक मैहर के नारायण त्रिपाठी तो दूसरे शहडोल के ब्योहारी से शरद कोल थे  | इसके बाद खुद कमलनाथ ने इन दोनों विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने का दावा किया था  | लेकिन आज बदले हुए घटनाक्रम में भाजपा अपने बागी विधायक की घर वापसी कराने में कामयाब हो गई  |   

Dakhal News

Dakhal News 15 October 2019


मोदी सफाई

  मॉर्निंग वॉक से नरेंद्र मोदी का  स्वच्छता सन्देश   महाबलीपुरम के ममल्लापुरम समुद्र तट पर पीएम मोदी ने सफाई करते हुए दिन की शुरुआत की  चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की भारत यात्रा के बीच मोदी समुद्र  तट पर घूमने निकले और यहाँ वहां पड़ा कचरा बीन कर उन्होंने आम जनता को स्वच्छता का सन्देश दिया  मोदी अपने कार्य के दौरान ऐसा कुछ कर जाते हैं कि लोगों को उनकी चर्चा करने  के लिए मजबूर होना पड़ता है  |    चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की भारत यात्रा के बीच शनिवार सुबह पीएम मोदी एक अलग ही अंदाज में नजर आए  | दरअसल, मॉर्निंग वॉक के दौरान समुद्र किनारे पहुंचे मोदी ने देश की जनता को एक बार फिर स्वच्छता का संदेश दे  दिया  जिस वक्त वे ममल्लापुरम के तट पर मॉर्निंग वॉक कर रहे थे उस दौरान किनारे पर पड़ा कचरा देख मोदी सफाई मे जुट गए  |  इस पूरे घटनाक्रम का एक वीडियो भी सामने आया है  | जिसमें पीएम मोदी मॉर्निंग वॉक के वक्त समुद्र के किनारे आईं प्लास्टिक की बोतलो सहित अन्य गंदगी को साफ करते नजर आ रहे हैं  | पीएम मोदी मॉर्निंग वॉक के लिए ट्रैक सूट में दिखाई दे रहे हैं |  उनके हाथ में एक प्लास्टिक की थैली है  | जिसमें वे समुद्र किनारे से मिल रहे कचरे को जमा कर रहे हैं  | इस दौरान उन्हें प्लास्टिक की थैलियों के साथ ही प्लास्टिक की बॉटलें भी मिली जिसे उनके द्वारा जमा किया गया  | इसके बाद आखिर में उन्होंने इसे साथ में मौजूद एक कर्मचारी को थमा दिया  पीएम मोदी द्वारा समुद्र तट पर की गई सफाई का वीडियो उनके ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर भी शेयर किया गया है  जिसमें पीएम मोदी ने लिखा है कि ' आज सुबह ममल्लापुरम समुद्र तट पर मौजूद कचरे को साफ किया  | लगभग आधा घंटे तक वहां रहा अपने द्वारा कलेक्ट किए गए कचरे को जयराज को दिया जो होटल स्टॉफ से जुड़े हुए हैं  हमें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि हमारे पब्लिक प्लेस साफ सुथरे रहें  हमें यह भी सुनिश्चित करना चाहिए कि हम फिट और स्वस्थ्य रहें  |   

Dakhal News

Dakhal News 12 October 2019


अमितशाह चीन

  कश्मीर पर किसी का दखल बर्दाश्त नहीं   जिनपिंग के भारत दौरे के दौरान गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कश्मीर पर हमारा स्टैंड साफ  यह हमारा आंतरिक मामला है और इस मसले पर हमें किसी का दखल बर्दाश्त नहीं | अमित शाह बुलढाणा के चिखली में एक सभा को सम्बोधित कर रहे थे |   गृह मंत्री अमित शाह ने कश्मीर को भारत का आंतरिक मसला बताते हुए कहा कि इसमें किसी भी अन्य देश के दखल की जरुरत नहीं है | अमित शाह ने एक बार फिर दोहराया है कि कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है और कश्मीर मसला भारत का आंतरिक मामला है | शाह ने महाराष्ट्र में चुनाव प्रचार के दौरान एक जनसभा को संबोधित करते हुए यह बात कही शाह ने कहा कि 'इतने सालों में हमेशा हमारा यही स्टैंड रहा है कि हम कश्मीर के मामले में किसी भी अन्य देश का दखल नहीं चाहते हैं | चाहे फिर वह यूएस के राष्ट्रपति हों या फिर कोई और, मोदी जी साफ शब्दों में कह चुके हैं कि कश्मीर हमारा आंतरिक मामला है और इसमें किसी का भी दखल बर्दाश्त नहीं है     चीन के राष्ट्रपति के भारत दौरे के पहले कश्मीर पर यू टर्न लेते हुए चीन की तरफ से बयान आया था कि चीन इस मामले पर अपनी नजर बनाए हुए है   जम्मू कश्मीर का मसला पुराने इतिहास का एक विवाद है | जो संयुक्त राष्ट्र चार्टर और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के नियमों के हिसाब से सुलझाया जाना चाहिए |     

Dakhal News

Dakhal News 11 October 2019


सलमान खुर्शीद बयान

  हमारे नेता हमें छोड़ गए, बुरे दौर में है कांग्रेस   कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद ने  राहुल गांधी को लेकर बड़ा बयान दिया है |  उन्होंने कहा कि, पार्टी इसलिए नुकसान उठा रही है, क्योंकि 2019 के लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद राहुल गांधी अध्यक्ष पद छोड़कर चले गए | सलमान खुर्शीद ने कहा कि," राहुल गांधी के अध्यक्ष पद छोड़ देने से पार्टी में एक खालीपन आ गया |  जिसने पार्टी की मौजूदा स्थिति को और उलझा दिया |   कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद कांग्रेस की हालात से बेहद परेशान हैं | उन्होंने कहा  कांग्रेस की  मुश्किल तब और ज्यादा हो गई, जब  राहुल गाँधी के पद छोड़ने के बाद सोनिया गांधी अस्थायी तौर पर पार्टी की कमान संभाल रही है | एक-एककर नेता पार्टी छोड़ते जा रहे हैं | मौजूदा दौर में पार्टी इस हाल में पहुंच गई है कि वो अपना भविष्य भी नहीं तय कर पा रही है | सलमान खुर्शीद यहीं नहीं रूके उन्होंने कहा कि, "हमें ये जानना चाहिए कि आखिरी हम किन वजहों से यहां पहुंच गए हैं | लेकिन हमारी तमाम कोशिशों के बाद भी राहुल गांधी नहीं माने और पार्टी अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे दिया |  हम चाहते थे कि वो पार्टी की कमान संभालें, लेकिन ये उनका फैसला था और हम उसका सम्मान करते हैं | उन्होंने जोर देकर कहा कि, "पार्टी के अंदर चल रहे संघर्ष को देखते हुए ये लगता है कि आगामी हरियाणा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को जीत मिले |    कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने कहा कि, पार्टी को इस स्थिति का इसलिए सामना करना पड़ रहा है,क्योंकि 2019 लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद पार्टी ने आत्मावलोकन में इतना वक्त ले लिया | हालांकि उन्होंने ये साफ कर दिया कि हालात कैसे भी हों, वो दूसरों की तरह पार्टी छोड़कर नहीं जाएंगे | उन्होंने कहा कि, पार्टी आज जिस हाल में है,उसे देखकर दुख होता है। लेकिन कुछ भी हो जाए, मैं पार्टी नहीं छोड़ूंगा | मैं उन लोगों की तरह नहीं हूं, जिन्हें पार्टी ने सबकुछ दिया, मगर आज जब मुश्किल हालात हैं तो वो एक-एककर पार्टी छोड़कर जा रहे हैं |    

Dakhal News

Dakhal News 9 October 2019


RSS Shot Dead

  केबल व्यवसाय से भी जुड़ा था युवराज सिंह   मंदसौर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े नेता युवराजसिंह चौहान की गोली मारकर हत्या की सनसनीखेज घटना हुई | युवराजसिंह केबल नेटवर्क का संचालन भी करता था  इसके पहले उसका नाम इंदौर में हुई एक केबल ऑपरेटर की हत्या में भी संदिग्ध के रूप में सामने आया था  |  पुलिस ने आशंका जताई है कि यह हत्या रंजिश में की गई है इनके संबंध कुख्यात बदमाश सुधाकर राव मराठा से भी जुड़े हुए थे | बुधवार सुबह करीब 11 बजे  युवराजसिंह गीता भवन अंडरब्रिज के पास एक चाय की होटल में मौजूद थे, तभी वहां बाइक से आए अज्ञात बदमाशों ने गोली मार दी  घटना के बाद वहां भगदड़ मच गई और गोली मारने वाले भी फरार हो गए  |  वहां मौजूद लोगों ने घटना की सूचना तुरंत पुलिस  को दी और युवराजसिंह चौहान को अस्पताल ले जाया गया  |  जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया  | पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है | पुलिस यह भी जानने में लगी है कि ऐसे कौन लोग हैं, जिनसे युवराज की जान को खतरा था  | दिनदहाड़े मंदसौर शहर के अंदर हुई हत्या ने सनसनी फैला दी है | जहां यह घटना हुई वहां आस-पास के लोगों में दहशत का माहौल है  | युवराज केबल व्यवसाय से जुड़े थे और आरएसएस से भी जुड़े हुए थे युवराज जब लोगों से दशहरे के बारे में चर्चा कर रथा था तभी अचानक एक बाइक वहां आकर रुकी और उस पर पीछे बैठे युवक ने गोलियां चलाना शुरू कर दी  तीन गोलियां युवराज को लगी और वो वहीं गिर गया  | हमलावरों के भागने के बाद आस-पास के लोग हिम्मत करके वहां पहुंचे और युवराज को उठाकर ऑटो रिक्शा में रखा और अस्पताल ले गए |    

Dakhal News

Dakhal News 9 October 2019


CRPF जवान मदद

  सोशल मीडिया पर आया CRPF का पीड़ित जवान   सुकमा जिले के 74वीं बटालियन में पदस्थ CRPF जवान का वीडियो सामने आया है  | जवान ने उत्तर प्रदेश प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है  और साथ ही मदद नहीं मिलने पर 'पान सिंह तोमर' की तरह बागी बनने की चेतावनी भी दी है  | इस वायरल वीडियो में सीआरपीएफ जवान ने परिजनों पर अपनी जमीन हड़पने का आरोप लगाया है, वहीं पुलिस प्रशासन से शिकायत के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाया है  |   सीआरपीएफ के जवान प्रमोद कुमार छत्तीसगढ़ में नक्सलियों से लोहा ले रहे हैं  |उधर उनके चाचाओं और उनके गुर्गों ने प्रमोद कुमार की जमीन पर कब्ज़ा कर लिया है  | प्रमोद कुमार ने वीडियो के जरिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से गुहार लगाते हुए कहा है कि आप मामले में संज्ञान लीजिए और उचित कार्रवाई कीजिए  | सुकमा जिले में पदस्थ सीआरपीएफ जवान प्रमोद कुमार उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले का रहने वाला है  | प्रमोद कुमार ने  अपने चाचा पर आरोप लगाया है कि उन्होंने प्रमोद की जमीन हड़प ली है  |  साथ ही अपने परिजनों से मारपीट करने का भी आरोप लगाया है  |    वायरल वीडियो में प्रमोद कुमार ने कहा है कि मामले को लेकर उन्होंने अपने उच्च अधिकारी को जानकारी दी थी, जिसके बाद उन्होंने लिखित शिकायत कर जिला कलेक्टर और एसपी को पत्र भेजकर कार्रवाई की मांग की थी, लेकिन तीन महीने बीत जाने के बाद न कोई कार्रवाई की गई और न ही पत्र का कोई जवाब आया | अब आलम ऐसा है कि नक्सल क्षेत्र में तैनात जवान को वीडियो वायरल कर सरकार से मदद मांगनी पड़ रही है  | प्रमोद कुमार ने कहा है कि अगर देश की रक्षा के लिए वे अपनी जान दे सकते हैं तो अपने परिवार वालों के लिए पान सिंह तोमर भी बन सकते हैं  |

Dakhal News

Dakhal News 7 October 2019


Jhiram Ghati Naxal Attack

  मड्डा मड़कामी और सन्नू वेट्टी पर इनाम घोषित   छत्तीसगढ़ के झीरम घाटी नरसंहार में शामिल नक्सलियों पर नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी ने इनाम की घोषणा की है | नक्सलियों पर 50 हजार से लेकर सात लाख से रुपये तक का इनाम घोषित किया गया है  साथ ही नक्सलियों के बारे में सूचना देने वालों के लिए भी नकद इनाम की घोषणा की गई है  सूचना देने वालों का नाम गोपनीय रखा जाएगा |    बस्तर संभाग स्थित झीरम घाटी में नक्सलियों ने 2013 में कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा में शामिल नेताओं पर हमला किया था  |  इस हमले में कांग्रेस के तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार पटेल, पूर्व केंद्रीय मंत्री विद्याचरण शुक्ला, नेता प्रतिपक्ष महेंद्र कर्मा सहित 32 लोगों की जानें गई थी | एनआइए के अधिकारियों ने बताया कि कुख्यात नक्सली देवजी और गणेश उइके पर सात-सात लाख रुपये का इनाम घोषित किया गया है  |  दोनों नक्सली नेता दंडकारण्य क्षेत्र में सक्रिय हैं और झीरम कांड के मास्टर माइंड माने जाते हैं |  एनआइए ने नक्सलियों के नाम, उपनाम और पता का भी जिक्र किया है  |  वहीं, छत्तीसगढ़ के सुकमा के सोमा सोढ़ी, बारसे सुक्का, जयलाल मंडावी, भगत हेमला उर्फ बदरू, सप्पो हुंगा पर पांच-पांच लाख का इनाम घोषित किया है  तीन नक्सलियों पर ढाई लाख का इनाम घोषित किया गया है | इसमें तेलम आयतू, बदरू मोडियाम और कुरसम सन्नी शामिल हैं  यह तीनों बीजापुर जिले के हैं | नौ नक्सलियों पर एक-एक लाख का इनाम घोषित किया गया है  | इसमें बस्तर के कामेश कवासी, बीजापुर के कोरसा सन्नी, लच्छी मोडियाम, सोमी पोटाम, मोडियम रमेश, कोरसा लक्खू, सरिता केकम, कुम्मा गोंदे और मंगली कोसा है  | 50-50 हजार का इनाम दंतेवाड़ा के मड्डा मड़कामी और सन्नू वेट्टी पर घोषित किया गया है  | एनआइए ने जानकारी देने के लिए रायपुर में पदस्थ एसपी का नंबर भी जारी किया है  मौलश्री विहार स्थित एनआइए कार्यालय में सीधे जानकारी दी जा सकती है  |   साथ ही दिल्ली कार्यालय में भी जानकारी भेजी जा सकती है। एनआइए के इनाम घोषित करने के साथ ही जांच में भी तेजी लाई है |   

Dakhal News

Dakhal News 6 October 2019


मदिरा भोग Durga Ashtami

  मां महामाया और महालया को मदिरा का भोग नवरात्र की महाअष्टमी पर उज्जैन की सुख समृद्धि व प्रगति के लिए मदिरा की धार से नगर पूजा हुई कलेक्टर शशांक मिश्र ने चौबीसखंबा माता मंदिर में मां महामाया और महालया को मदिरा का भोग लगाया | इसके बाद ढोल-ढमाकों के साथ नगर में मदिरा की धार शुरू हुई  |नगर पूजा की परंपरा अनादिकाल से चली आ रही है अब शासन द्वारा यह पूजा कराई जाती है  |  उज्जैन में कलेकटर शशांक मिश्रा ने नगर पूजा के लिए मां महामाया और महालया को मदिरा का भोग लगाया   | नगर पूजा में 10 हजार रुपए से अधिक राशि खर्च होती है  | हालांकि शासन की ओर से इसके लिए 299 रुपए ही दिए जाते हैं शेष राशि प्रशासनिक अधिकारी व कर्मचारी मिलकर खर्च करते हैं  पूजन के बाद मदिरा को प्रसाद रूप में वितरित किया गया  | इसके बाद शासकीय अधिकारी व कोटवारों का दल अन्य देवी व भैरव मंदिर में पूजा अर्चना के लिए रवाना हुआ  | इस दौरान उज्जैन में स्थित करीब 40 देवी व भैरव मंदिर में पूजा की  गई  नगर पूजा के लिए करीब 25 बोतल मदिरा का उपयोग होता है  |  देवी व भैरव को मदिरा अर्पित करने के अलावा शासकीय दल तांबे के पात्र में मदिरा भर कर शहर में करीब 27 किलो मीटर लंबे मार्ग पर धार लगाते हुए  चला प्राचीन मान्यता में भोग को बड़बाकुल कहा जाता है  | मान्यता है इससे अतृप्तों को तृप्ति मिलती है इससे नगर में सुख, शांति व समृद्धि बनी रहती है | चौबीसखंभा माता मंदिर से शुरू  होकर नगर पूजा का क्रम करीब 12 घंटे तक चला | इस दौरान 27 किलोमीटर लंबे मार्ग पर स्थित 40 से अधिक देवी व भैरव मंदिर में पूजा अर्चना  की गई  पूजन का समापन  गढ़कालिका क्षेत्र में स्थित हांडी फोड़ भैरव की पूजा अर्चना के साथ हुआ  ये परंपरा राजा विक्रमादित्य के समय से चली आ रही है  | मुगल तथा ब्रिटिश शासन काल में भी यह परंपरा जारी रही  आजादी के बाद शासन की ओर से यह पूजन जारी रखा गया है  मान्यता है कि देवी के उग्र रूप की पूजा के लिए मदिरा चढ़ाई जाती है  | शक्ति स्वरूपा देवी महामाया और महालया रक्षा का वरदान देती हैं  |

Dakhal News

Dakhal News 6 October 2019


वायुसेना स्ट्राइक

  वायुसेना ने बताई  हमले की कहानी   8 अक्टूबर को वायुसेना दिवस है और इसे लेकर वायुसेना की तैयारियां भी जोरों पर है  | ठीक इससे पहले वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में की गई एयर स्ट्राइक पर एक प्रमोशनल वीडियो जारी किया है |  जिसमें वायुसेना द्वारा पूरे साल किए गए कामों की जानकारी दी गई है और इसके केंद्र में बालाकोट में की गई एयर स्ट्राइक है | वायुसेना के  इस प्रमोशनल वीडिओ को जारी करने के बाद  | वायुसेना चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया ने बताया कि पिछले एक साल में वायुसेना ने कईं अहम मुकाम हासिल किए हैं जिसमें 26 फरवरी की वो एयर स्ट्राइक भी है जिसमें बालाकोट में स्थित आतंकी कैंपों को ध्वस्त किया गया था  | उन्होंने इसके अलावा रूस से खरीदे जा रहे मिसाइल डिफेंस सिस्टम S-400 को लेकर कहा कि इससे भारतीय वायुसेना की ताकत बढ़ेगी  | इसी साल पुलवामा में हुए आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हुए थे और इसके बाद आतंकियों पर बड़ी कार्रवाई करते हुए भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट स्थित आतंकी अड्डों पर एयर स्ट्राइक की थी  | इस एयर स्ट्राइक के बाद सीमा पर काफी तनाव रहा था और पाक ने भी भारतीय सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने की कोशिश की थी  | हालांकि, इस कोशिश को भी वायुसेना ने नाकाम किया था और मिग-21 बायसन में सवार होकर विंग कमांडर अभिनंदन ने पाकिस्तानी F-16 को मार गिराया था  |  

Dakhal News

Dakhal News 4 October 2019


 patwari hadtaal

    माफी की मांग और वेतनमान बढ़ाने को लेकर हड़ताल जमा किये तहसील में रिकॉर्ड, काम बंद       उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी के पटवारियों पर रिश्वत खोर  वाले बयान को लेकर प्रदेश भर के पटवारी नाराज चल रहे हैं  | पटवारियों ने जीतू पटवारी के बयान को लेकर तहसील में अनिश्चित कालीन हड़ताल शुरू कर दी है |  पटवारियों ने अपने बास्ते दफ्तर में जमा करवा दिए हैं  पटवारियों ने मांग की है की जीतू पटवारी खुले मंच से अपने बयान पर माफी मांगे  |  कमलनाथ सरकार के  उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी का सभी पटवारियों को घूसखोर कहना अब महंगा पड़  रहा है  प्रदेश के सभी पटवारियों ने तहसील स्तर पर इसका विरोध  जताया है  | पटवारियों ने  तहसील में अपने रिकॉर्ड जमा कर अनिश्चित कालीन हड़ताल शुरू कर दी है  पटवारियों ने मांग की है की जीतू पटवारी ने खुले मंच से सभी पटवारियों को घूसखोर कहा जो की  निंदनीय है  |  पटवारी को मंच से माफी मांगनी होगी उधर पूर्व मुख्यमंत्री   दिग्विजय सिंह के बयान से भी पटवारी खासा नाराज नजर आये  |  पटवारियों ने सरकार से वेतनमान बढ़ाने की भी मांग की है  पटवारियों का कहना है की अगर मांगे नहीं मानी गई तो वो हड़ताल पर बैठे रहेंगे  |          

Dakhal News

Dakhal News 3 October 2019


हमला अलर्ट

  भारत में हमले की फिराक में पाक आतंकी   त्योहारों के बीच  दिल्ली में एक बार फिर से आतंकी हमले का अलर्ट जारी हुआ है | इसके बाद सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हैं और सुरक्षा बढ़ा दी गई है  |  ...अब दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल कईं जगहों पर छापेमारी कर रही है  | खुफिया एजेंसियों के अलावा अमेरिका ने भी भारत को आगाह किया है कि पाकिस्तानी आतंकी हमले की फिराक में हैं | इसके बाद सरकार ने कईं महत्वपूर्ण जगहों की सुरक्षा बढ़ा दी है  |   अमेरिका ने आगाह किया है कि पाकिस्तानी आतंकी जम्मू-कश्मीर से जुड़े अनुच्छेद 370 को खत्म किए जाने के कारण भारत में हमलों को अंजाम दे सकते हैं  |  इसके साथ ही अमेरिका ने यह भी कहा है कि अगर पाकिस्तान आतंकी संगठनों पर शिकंजा कसा जाए तो इन हमलों को रोका जा सकता है अमेरिका के हिद-प्रशांत सुरक्षा मामलों के सहायक रक्षा सचिव रैंडल श्राइवर ने  कहा, "कश्मीर पर भारत सरकार के नए कदम से कई देशों को आशंका है कि आतंकी संगठन सीमा पार हमलों को अंजाम दे सकते हैं  | मुझे नहीं लगता कि चीन इस तरह का कोई संघर्ष चाहेगा या इसका समर्थन करेगा दूसरी तरफ पंजाब स्थित श्री गुरु रामदास जी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट राजासांसी और पठानकोट एयरबेस पर फिदायीन हमले की आशंका जताए जाने के बाद दोनों की सुरक्षा सेना को सौंप दी गई है  | सेना ने एयरपोर्ट और एयर बेस को अपने सुरक्षा घेरे में ले लिया है  |  राजासांसी एयरपोर्ट पर उड़ानों की सुरक्षा के मद्देनजर एयरफोर्स भी चौकस हो गई है और लगातार स्थिति पर नजर रखे हुए है |    

Dakhal News

Dakhal News 3 October 2019


SC/ST Act

  अब पहले की ही तरह होगी गिरफ्तारी अब इन मामलों में बिना जांच के गिरफ्तारी होगी   SC/ST Act को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने  बड़ा फैसला सुनाया है  | सर्वोच्च न्यायालय ने 2018 में दिए गए आदेश को रद्द  कर दिया है और अब इसके बाद इससे जुड़े मामलों में तुरंत गिरफ्तारी होगी  |  मार्च 2018 में कोर्ट के ही एक आदेश में इन मामलों में तत्काल गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी  | कोर्ट के आदेश में कहा गया था कि शिकायत दर्ज होने पर पुलिस पहले मामले की जांच करेगी और दोषी पाए जाने पर गिरफ्तारी हो  |   हालांकि, इस आदेश का देशभर में विरोध हुआ था और सरकार ने भी सर्वोच्च न्यायालय से अपील की थी कि वो इस आदेश को वापस ले ले  |   सर्वोच्च न्यायालय ने 2018 में दिए गए आदेश को रद्द  कर दिया है और अब इसके SC/ST Act  से जुड़े मामलों में तुरंत गिरफ्तारी होगी  | 20 सितंबर को SC/ST एक्ट के प्रावधानों को हल्का करने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ केंद्र सरकार की पुनर्विचार याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई पूरी कर फैसला सुरक्षित रखा था | केंद्र सरकार द्वारा 20 मार्च 2018 को सुनाए गए फैसले को लेकर पुनर्विचार याचिका दायर की गई थी  | जस्टिस अरुण मिश्रा की अध्यक्षता वाली बेंच ने मंगलवार को सुनाए अपने फैसले में कहा कि एससी/एसटी को सदियों से बहिष्कृत किया जाता रहा है और समाज में अब भी अस्प्रश्यता खत्म नहीं हुई है  | कोर्ट ने ऑब्जर्व किया कि पिछड़े वर्गों को अब भी समानता और नागरिक अधिकार नहीं मिले हैं और यह लोग अब भी विकास का फल चखने से विलग हैं  | इस दौरान कोर्ट ने उन कर्मचारियों का भी जिक्र किया जो सीवर सफाई करते हुए अपनी जान गंवा चुके हैं  | कोर्ट ने इस दौरान कहा कि अनुच्छेद 15 के तहत एससी और एसटी के लोगों को संरक्षण मिला हुआ है लेकिन फिर भी उनके साथ भेदभाव होता है |  

Dakhal News

Dakhal News 2 October 2019


honey trap sawal uthe

  गाजियाबाद में सायबर सेल के मकान पर विवाद बढ़ा डीजी शर्मा ने वी के सिंह को मामले से हटाने की बात कही हनीट्रैप मामले में  उलझे आईपीएस अधिकारी   हाइप्रोफाइल हनी ट्रैप मामले में जांच को लेकर शुरू से ही विवाद रहा है | मध्यप्रदेश सायबर पुलिस के गाजियाबाद के  इंदिरापुरम में किराये का घर लेने का विवाद अब दो डीजी रैंक के अधिकारीयों के बीच में खींचतान का कारण  बन गया है |   डीजीपी व्ही.के. सिंह की भूमिका पर स्पेशल डीजी पुरुषोत्तम शर्मा ने  सवाल उठाये है | और वी के सिंह को मामले के सुपरविजन से हटाने की बात कही |  वही डीजीपी वी के सिंह ने मामले में कुछ भी कहने से इंकार कर दिया है लेकिन गाजियाबाद में सायबर सेल के किराये के घर  पर उन्होंने सवाल उठाये हैं | ये बड़ा सवाल है कि साइबर पुलिस को गाजियाबाद में सेफ हाउस की क्या जरूरत थी  इस पूरे मामले को हनीट्रैप से जोड़कर देखा जा रहा है |   मध्यप्रदेश के सायबर सेल के गाजियाबाद में किराये से फ्लैट लेने का मामला अब गर्माता जा रहा है | सायबर सेल के डीजी पुरषोत्तम शर्मा के किराये से लिए फ्लैट को  |  हनीट्रैप मामले से जोड़ने पर पुरुषोत्तम ने डीजीपी वी के सिंह को जांच से हटाने की बात कही है गौरतलब है  शर्मा ने कहा है की गाजियाबाद में फ्लैट उन्होंने ओफिसिअल कार्य के लिए लिया था | जिसको सार्वजनिक  कर सिंह ने गलत किया एसटीएफ और साइबर का काम अत्यंत जोखिम पूर्ण होता है |  उनके ठिकाने को  सार्वजनिक कर डीजीपी ने उनकी जान को  खतरे में डाली  है |  शर्मा ने कहा की यह उनका पर्सनल मत है की वी के सिंह को मामले से हटाया जाय  | शर्मा ने आईपीएस एसोसिएशन के अध्यक्ष विजय यादव को ईमेल किया और पुलिस की छबि खराब होने पर चिंता जताई  ..इस मामले में बड़ा सवाल यह है कि पुरुषोत्तम शर्मा से पहले किसी अधिकारी को दिल्ली में ऐसा करने की आवश्यकता क्यों महसूस नहीं हुई |     डीजीपी वीके सिंह ने डी जी शर्मा पर  किराये से फ्लैट लेने को लेकर  आपत्ति जाहिर करने के बाद यह विवाद शुरू हुआ था |अब यह भी जांच का विषय है की | आखिर सायबर सेल को गाजियाबाद में किराये से फ्लैट लेने की क्या आवश्यकता पडी | यह सोचने का विषय है की आखिर  वी के सिंह ने हनीट्रैप में शर्मा के द्वारा किराये से लिए फ्लैट को क्यों जोड़ा | क्या हनीट्रैप मामले के  कोई तार इस फ्लैट से भी जुड़ रहे  है यह विषय इसलिए भी संवेदनशील  हो गया है क्यूंकि कुछ आईपीएस अफसरों के नाम भी हनीट्रैप से जुड़ते नजर आ रहे हैं और माना जा रहा है इस झगडे के जरिये जांच को भी प्रवभावित किया जा सकता है |   

Dakhal News

Dakhal News 30 September 2019


हर्ष फायरिंग में बीजेपी नेता को गोली लगी

  हाई प्रोफ़ाइल मामले में पुलिस ने चुप्पी साधी   यूपी के पूर्व मंत्री बादशाह सिंह के बेटे के तिलक समारोह में जमकर हर्ष फायरिंग की गई  | जिसमे तिलक लेकर गए लड़की के भाई बीजेपी नेता बॉबी सिंह को गोली लग गई  | मामला हाई प्रोफ़ाइल है इसलिए आरोपियों को बचाने के प्रयास शुरू हो गए हैं पुलिस भी इस मामले में ज्यादा कुछ नहीं कह पा रही है |   बडामलेहरा के पाडाझिर मे हर्ष फायरिंग मे बीजेपी युवा मोर्चा के महामंत्री बॉबी सिंह को गोली लग गई  |  बीती रात उत्तरप्रदेश के पूर्वमंत्री  बादशाह सिंह के बेटे का तिलक उत्सव उनके फार्म हाऊस मे चल रहा था  | अपनी बहिन का तिलक लेकर पहुंचे बी जे पी युवामोर्चा महामंत्री बॉबी  सिंह को उस समय  पेट मे गोली लग गई ,जब हर्ष फायरिंग की जा रही थी  |  बॉबी को गोली लगते ही तिलक समारोह मे अफरातफरी मच गई और घायल बॉबी  को तत्काल जिला अस्पताल मे भर्ती  कराया गया  |    बॉबी  को गोली लगने की खबर लगते ही बी जे पी के नेता और कार्यकर्ता अस्पताल पहुंच गये  |  वही बादशाह सिंह  |  काग्रेस विधायक  प्रधुम्न सिंह और आलोक चतुर्वेदी भी अस्पताल पहुंच गये |  जब यह हर्ष फायरिंग की जा रही थी तभी दोनो पाटिँयो के विधायक और नेता और पुलिस समारोह स्थल पर मौजूद थे  ,लेकिन किसी ने भी  फायरिंग को रुकवाने की कोशिश नहीं की |      

Dakhal News

Dakhal News 30 September 2019


मन की बात

  ई-सिगरेट, लक्ष्मी और चिराग तले अंधेरे की बात   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात में की ई-सिगरेट, लक्ष्मी और चिराग तले अंधेरे की बात की  |  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन की बात कार्यक्रम में उनके साथ एक खास आवाज भी सुनाई दी  यह आवाज थी महान गायिका लता मंगेशकर की  |  लता मंगेशकर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिका की यात्रा पर जाने से पहले फोन किया था | इसकी रिकॉर्डिंग को उन्होंने अपने शो में शामिल किया  |    मन की बात में पीएम मोदी ने कई बातों को याद किया और लता दीदी को 28 सितंबर को उनके जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं  |  ...  मोदी ने कहा- आपको जन्मदिन की बहुत-बहुत शुभकामनाएं, अग्रिम बधाई दे दूं  | आपका स्वास्थ्य अच्छा रहे,आपका आशीर्वाद हम सभी पर बना रहे, बस यही प्रार्थना और आपको प्रणाम करने के लिए मैंने, अमेरिका जाने से पहले ही आपको फोन कर दिया  | इस पर जबाव देते हुए लता मंगेशकर ने कहा- मैं जानती हूं कि आपके आने से भारत का चित्र बदल रहा है और मुझे बहुत खुशी होती है  बहुत अच्छा लगता है इसके बाद पीएम मोदी ने  'चिराग तले अंधेरे' मुहावरे का प्रयोग कर समाज को नई दिशा देने, नई सोच देने की कोशिश की  त्योहारों में घर खुशियों से भरे होंगे, लेकिन आपने देखा होगा कि हमारे आस-पास भी बहुत सारे ऐसे लोग हैं, जो इन त्योहारों की खुशियों से वंचित रह जाते हैं और इसी को तो कहते हैं- चिराग तले अंधेरा'  ये कहावत एक शब्द नहीं है, हम लोगों के लिए एक आदेश है, एक दर्शन है  |    पीएम मोदी ने तंबाकू का जिक्र करते हुए लोगों से अपील की कि तंबाकू के नशे से दूर रहें  | उन्होंने कहा- तंबाकू कई जानलेवा बीमारियों को जन्म देता है  ई-सिगरेट भी स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है  |  हमने हाल ही में ई-सिगरेट पर प्रतिबंध लगाया है | हमें नशे के इस नए तरीके से दूर रहने की जरूरत है |   सिंगल यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल न करने की सलाह देते हुए पीएम मोदी ने देशवासियों से आग्रह किया कि इस दो अक्टूबर को सिंगल यूज प्लास्टिक के खिलाफ देशव्यापी अभियान का हिस्सा बनें  |   

Dakhal News

Dakhal News 29 September 2019


पनडुब्बी खंडेरी -राजनाथ

  रक्षा मंत्री बोले- 26/11 जैसी साजिश नहीं होगी कामयाब   स्कॉर्पीन श्रेणी की एक और पनडुब्बी  आई एन एस खंडेरी नौसेना में शामिल हो गई | रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की मौजूदगी में इसे नौसान बेड़े में शामिल कर लिया गया |  इसके साथ ही राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को साफ शब्दों में कहा कि सरकार मजबूत इरादों और नौसान की बढ़ी हुई ताकत के साथ हम उसे कोई भी गलत कदम उठाने पर बड़ा नुकसान पहुंचा सकते हैं | रक्षा मंत्री ने यह भी कहा कि कुछ ऐसी ताकतें हैं जिनकी हसरतें नापाक हैं |  वो साजिश रच रहे हैं कि समुद्र के रास्ते एक और 26/11 जैसा आतंकी हमला तटिय इलाकों में कर सकता है लेकिन उसके इरादे किसी भी तरीके से कामयाब नहीं होगी | मुंबई का मझगांव डॉक पर  खंडेरी पनडुब्बी को जलसेना के बड़े में शामिल किया गया  | यह पनडुब्‍बी एंटी मिसाइल से लेकर परमाणु क्षमता से लैस है | भारत दुनिया के उन चुनिंदा देशों में शामिल है जो परंपरागत पनडुब्बियों का निर्माण करते हैं |    कलवरी और खंडेरी पनडुब्बियां आधुनिक फीचर्स से लैस है | यह दुश्मन की नजरों से बचकर सटीक निशाना लगा सकती हैं | इसके साथ ही टॉरपीडो और एंटी शिप मिसाइलों से हमले भी कर सकती हैं |  ये सबमरीन पानी के भीतर और पानी से किसी भी युद्धपोत को ध्वस्त करने की क्षमता रखती हैं  | यह पानी के भीतर 45 दिन गुजार सकती है और यह एक घंटे में 35 किलोमीटर की दूरी आसानी से तय कर सकती है |  

Dakhal News

Dakhal News 28 September 2019


parivar maut

एक कमरे में मिले पति-पत्‍नी और बच्‍चों के शव इंदौर के  वाटर पार्क में सॉफ्टवेयर इंजीनियर, उनकी पत्नी और उनके दो जुड़वा बच्चों के शव मिलने से सनसनी फैल गई | दंपती एक दिन पहले ही बच्चों के साथ वहां घूमने गए थे   गुरुवार शाम तक भी जब कमरे का दरवाजा नहीं खुला तो वाटर पार्क प्रबंधन ने दूसरी चाबी से दरवाजा खोला  भीतर सभी के शव पड़े देख पुलिस को सूचना दी  माना जा रहा है इन सब की मौत जहरीला पदार्थ खाने से हुई है |   क्रिसेंट वॉटर पार्क में बने रिसोर्ट में एक ही परिवार के चार लोगों के शव मिलने से पुलिस भी  हैरान है | ये शव  डीबी सिटी में रहने वाले सॉफ्टवेयर इंजीनियर अभिषेक सक्सेना उनकी पत्नी प्रीति सक्सेना और उनके चौदाह वर्षीय जुड़वां बच्चे अद्वैत  और अनन्या  के  हैं | शव क्रिसेंट वाटर पार्क के कमरे में मिले   दंपती ने ऑनलाइन रूम बुक करवाया था  टीआई रूपेश दुबे के अनुसार परिवार ने बुधवार रात दस बजे अंतिम बार पानी की बोतल बुलवाई थी   उसके बाद से न कमरे से कोई बाहर आया और न ही कुछ मंगवाया | जब गुरुवार दोपहर बाद तक कोई हलचल नहीं हुई तो वाटर पार्क प्रबंधन ने पहले दरवाजा खटखटाकर खुलवाने का प्रयास किया   जब कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली तो दूसरी चाबी से दरवाजा खोला  भीतर बच्चों और दंपती के शव देखकर तुरंत खुड़ैल पुलिस को सूचना दी | मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने घटनास्थल की जांच की तो शवों के पास जहरीला पदार्थ रखा मिला |    प्रारंभिक जांच में संभावना जताई जा रही है कि जहरीला  पदार्थ खाने से उनकी मौत हुई होगी | एफएसएल टीम ने भी मौके पर जांच पड़ताल की  फिलहाल आत्महत्या का कारण स्पष्ट नहीं हो सका | शवों के पैर और हाथ के नाखून भी नीले पड़ गए थे | अभिषेक के मामा की बेटी संध्या सक्सेना ने बताया कि हादसे की खबर मिलने के बाद वह दिल्ली से इंदौर पहुंची | उसने बुधवार रात 8 बजे प्रीति व उनके दोनों बच्चों से बात की थी, सभी खुश थे |    

Dakhal News

Dakhal News 27 September 2019


Ayodhya Case

  सुनवाई के लिए इससे ज्यादा वक्त नहीं मिलेगा   सुप्रीम कोर्ट में जारी अयोध्या जमीन विवाद मामले की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को एक बड़ी टिप्पणी की  |  सुप्रीम कोर्ट ने साफ कहा है कि मामले में सुनवाई के लिए सिर्फ 18 अक्टूबर तक का समय है और इसके बाद किसी भी पक्ष को एक भी दिन अतिरिक्त नहीं दिया जाएगा  |   अयोध्या मामले में सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस की अध्यक्षता वाली पांच जजों की बेंच ने दोनों पक्षों को साफ कहा कि आज का दिन मिलाकर हमारे पास सुनवाई पूरी करने के लिए 18 अक्टूबर तक का समय है | अगर तब तक सुनवाई पूरी नहीं होती है तो इस मामले में फैसला आने की उम्मीदें कम हो जाएंगी  | फिलहाल कोर्ट में मुस्लिम पक्ष अपनी दलीलें पेश कर रहा है और राम चबूतरे को लेकर उसने पहले कही अपनी बात से अलग दावा किया है  |  इससे पहले भी सर्वोच्च न्यायालय दोनों पक्षों को जिरह के लिए समय दे चुका है और कोर्ट ने कहा था कि अगर 18 अक्टूबर तक सुनवाई पूरी होती है तो अगले चार हफ्ते में बेंच अपना फैसला सुना सकती है  | बैंच  की अध्यक्षता कर रहे चीफ जस्टिस रंजन गोगोई 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं  |      

Dakhal News

Dakhal News 26 September 2019


 metro rail

  2022 तक पहला चरण पूरा करने का लक्ष्य कमलनाथ ने किया मेट्रो  का भूमिपूजन   मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भोपाल में मेट्रो रेल प्रोजेक्ट का भूमिपूजन किया  |  2022 तक मेट्रो का पहला चरण पूरा करने का लक्ष्य सरकार ने रखा है और 2023 तक भोपाल में मेट्रो ट्रेन चलना शुरू हो जाएगी  ..मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि भोपाल मेट्रो रेल का नाम भोज मेट्रो होगा  , इस परियोजना के शिलान्यास अवसर पर मुझे बहुत खुशी हुई  | आज मध्यप्रदेश का एक इतिहास बनने जा रहा है  |    भोपाल में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मेट्रो रेल प्रोजेक्ट का शिलान्यास किया  | इस मौके पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कांग्रेस के एक विधायक के विरोध के बावजूद  भोपाल मेट्रो रेल का नाम भोज मेट्रो किया  मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कालांतर में मैं केंद्रीय पर्यावरण मंत्री था तब यहाँ की  लेक के रखरखाव के लिए रुपए आवंटित किए थे  | उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री रहते हुए मुझे यह अनुभव हुआ कि जब मेट्रो रेल जयपुर में, दिल्ली में चल सकती है तो फिर भोपाल में क्यों नहीं आ सकती है  | उन्होंन भोपाल के मेयर  आलोक शर्मा से अपील की कि आप यहां के लोगों की मदद कर, दिल्ली जाएं और केंद्र सरकार से मदद की अपील करें |    मेट्रो रेल की परियोजना में पहले चरण में 27 किलोममीटर का रुट तैयार किया जाएगा  |  जिसमें 2 किलोमीटर का कॅारिडोर निर्मित होगा  | इस प्रोजेक्ट के निर्माण में करीब 7 हजार करोड़ रुपए की लागत आएगी  |  भोपाल की मेट्रो रेल जयपुर जैसी ही होगी  इस मौके पर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ,नगरीय विकास मंत्री जयवर्धन सिंह  ,जनसम्पर्क मंत्री पीसी शर्मा ने भी भोपाल के विकास को लेकर अपनी बात कही  | कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा भोपाल के विकास में डॉ शंकर दयाल शर्मा और बाबूलाल गौर का योगदान हमेशा याद रखा जाएगा  |   

Dakhal News

Dakhal News 26 September 2019


baccho ki hatya

  नरोत्तम :सरकार तबादले में व्यस्त, रिचार्ज हो रहे सभी   शिवपुरी में दो दलित बच्चों की लाठी से पीटकर हत्या के मामले में कानून और जनसम्पर्क  मंत्री पी सी शर्मा ने कहा की यह हृदय विदारक घटना है  | आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलेगी | उधर  पूर्व जनसम्पर्क मंत्री नरोत्तम मिश्रा  ने मामले में पूरी कमलनाथ सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा की  ... जब से कमलनाथ सरकार बनी है  | सरकार तबादले में व्यस्त है  | और .प्रदेश की कानून व्यवस्था बिगड़ गई है आये दिन बच्चों की हत्या और अपहरण हो रहे हैं  |     शिवपुरी जिले के सिरसौद थाना क्षेत्र के ग्राम भावखेड़ी में दो दबंग भाइयों ने सड़क किनारे शौच करने पर दो मासूमों की लाठियों से पीट-पीटकर हत्या कर दी  पूर्व जनसमपर्क मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कमलनाथ सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा की  | जब से कमलनाथ सरकार बनी है  | प्रदेश में कानून का डर ख़तम हो गया है  | आये दिन बच्चों की हत्या और अपहरण की घटनाएं बढ़ गई हैं चाहे वह चित्रकूट का मामला हो या उनके शहर का  |  नरोत्तम मिश्रा ने निशाना साधते हुए कहा की सरकार तबादले और पोस्टिंग में व्यस्त है  जब तबादला होगा तो रिचार्ज की भी जरूरत होगी  | इसलिए सब रिचार्ज में व्यस्त है और इधर कानून व्यवस्था ठप्प हो चुकी है  |        हत्या करके भाग रहे दोनों हत्यारों  हाकिम यादव और राममेश्वर यादव को गांववालों ने पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया गांव पहुंचे वाल्मीकि समाज के नेताओं ने सोशल मीडिया पर वीडियो डालकर आरोप लगाया कि दोनों बच्चों के शव तौलिए में लिपटे हुए हैं  | उन्हें कफन तक प्रशासन व पुलिस उपलब्ध नहीं करा सकी  | अंतिम संस्कार के लिए लकड़ियां भी नहीं हैं  | समाज के लोगों ने चंदा कर कफन और दफन का इंतजाम किया है  | घटना के बाद गांव में तनाव है  | मौके पर पुलिस तैनात कर दी गई है  | कानून और जनसम्पर्क मंत्री पी सी शर्मा ने बच्चों की हत्या को हृदय विदारक घटना बताया और कहा की  आरोपियों  को जल्द से जल्द कड़ी सजा दिलाई जाएगी  |       

Dakhal News

Dakhal News 26 September 2019


मिग क्रेश

   MIG-21 ट्रेनर एयरक्राफ्ट के दोनों पायलट सुरक्षित   भारतीय वायुसेना का एक मिग-21 ट्रेनर एयरक्राफ्ट आज सुबह भिंड के गोहद में क्रैश हो गया |  गनीमत रही कि इस हादसे में दोनों पायलट वक्त रहते इजेक्ट होने में कामयाब हो गए | इस एयरक्राफ्ट ने ग्वालियर एयरबेस से उड़ान भरी थी |  ग्वालियर से उड़े मिग-21 ट्रेनर एयरक्राफ्ट  में एक ग्रुप कैप्टन और स्कवाड्रन लीडर सवार थे | हादसे की जानकारी मिलते ही वायुसेना के साथ ही स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंच गई और पूरा इलाके को घेर लिया है | ... गांववालों को मलबे से दूर रहने के लिए कहा गया | जिस इलाके में ये विमान गिरा है  वहां भारी बारिश के चलते कीचड़ भरा हुआ है | ऐसे में सुरक्षा एजेंसियों और एयर फ़ोर्स की जाँच टीम को वहां तक पहुंचने में परेशानी का सामना करना पड़ा | पिछले तीन साल के भीतर भारतीय वायुसेना ने क्रैश के चलते 27 एयरक्राफ्ट गंवाए हैं | इसमें 15 फायटर जेट्स हैं |    

Dakhal News

Dakhal News 25 September 2019


हनीट्रैप

  हनीट्रैप मामले की निष्पक्ष जाँच हो   हनीट्रैप मामले में रोज नए खुलासे होने से राजनैतिक और प्रशासनिक हलकों में हड़कंप मचा हुआ है | इस बीच बीजेपी  महासचिव  कैलाश विजयवर्गीय ने कहा हनीट्रैप मामले में कुछ पत्रकार शामिल हैं तो कुछ पत्रकार  इसमें मध्यस्थ की भूमिका में नजर आए |    हनीट्रैप मामले में नित नए खुलासों के बाद यह माना जा रहा है कि अब सरकार इस मामले को ठन्डे बास्ते में डालना चाहती है | इस बीच बीजेपी के वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय के बयान ने इस मामले को नया मोड़ दे दिया है |  विजयवर्गीय ने कहा इस मामले में आरोप प्रत्यारोप की बजाये निष्पक्ष जाँच की मांग की है और कहा है की इस में कुछ पत्रकार भी शामिल हैं |     कैलाश विजयवर्गीय के बयान में काफी हद तक सच्चाई है इस मामले के उजागर होने के बाद  | भोपाल के चार पुरुष और तीन महिला पत्रकार भी संदेह के दायरे में हैं इनमे से कुछ पहले भी ऐसे ऐसे कामों में  संलग्न रहे हैं |         

Dakhal News

Dakhal News 24 September 2019


डकैत बबुली

  पुलिस एनकाउंटर की कहानी झूठी निकली डाकू की मौत पर पुलिस ने खुद थपथपाई थी अपनी पीठ   डकैत बबुली और उसके साथी लवलेश के पुलिस एनकाउंटर की कहानी फर्जी है  ... इन दोनों डाकुओं को  इनके साथियों  ने  मौत के घाट उतारा था जिसका श्रेय मध्यप्रदेश पुलिस लेने में लगी है  इस  घटना से पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लग गए हैं  |   विंध्य के कुख्यात डकैत बबुली और लवलेश कोल को पुलिस ने नहीं उसी के साथियों ने मार दिया था  | इन दोनों के मरने की खबर के बाद पुलिस ने जंगल से डकैतों की लाश बरामद कर इन्हें एनकाउंटर में मारने का दावा किया था  | लेकिन बबुली कोल को मारने वाले डकैत सोहन कोल ने खुलासा किया कि इन दोनों को उसने और उसके साथियों ने मारा  | बबुली और लवलेश की मौत के बाद मध्यप्रदेश पुलिस खुद अपनी पीठ थपथपा रही थी इस मामले में  रीवा IG चंचल शेखर  की बताई कहानी की एक डाकू ने ही हवा निकाल दी है  | चंचल शेखर पर पहले भी भिंड में  फर्जी एनकाउंटर के आरोप लगे हैं  | इसी बीच चित्रकूट पुलिस टीम द्वारा पकड़े गए एक लाख के इनामी डाकू सोहन कोल ने यह कहकर हडकंप मचा दिया कि उसने अपने साथियों के साथ मिलकर सरगना बबुली और लवलेश को गोलियों से भून दिया था  | इसके बाद वह भाग गए थे  | डाकू के इस दावे के बाद  मध्यप्रदेश  पुलिस अधिकारियों की बोलती बंद हो गई है और यूपी पुलिस भी डकैत सोहन की बात को सच मान रही हैं | पहले सोहन कोल को सुनिए  |   सूत्र बताते हैं गैंग सरगना बबुली कोल और लवलेश को मारने के बाद लाली कोल ने पुलिस के सामने समर्पण कर दिया था  और सोहन अपने दो साथियों के साथ कुछ हथियार लेकर भाग गया था  |  एक लाख के इनामी सोहन कोल को यूपी की चित्रकूट पुलिस ने मानिकपुर के कल्याणपुर के जंगल में मुठभेड़ के बाद एक राइफल संग दबोच लिया  |  मौके से एक डकैत भाग निकला   सोहन की निशानदेही पर जंगल से दो  सेमी  ऑटो राइफल, सौ से ज्यादा कारतूस और 20 हजार रुपये की नगदी बरामद की गई पुलिस का दावा है कि जो हथियार मिले हैं, वो डाकू गया बाबा और ददुआ के समय के हैं  | इधर सतना में  हरसेड़ गांव में किसान अवधेश द्विवेदी के अपहरण में डकैतों की मदद करने वाले लाली कोल की मां मुन्नी कोल ने बड़ा खुलासा किया है  | मुन्नी कोल ने मीडिया के सामने दिए गए बयान में कहा है कि डकैत बबुली व लवलेश कोल को मरने वालों में लाली  भी शामिल था  | मुन्नी बाई ने बताया कि दोनों डकैत लोगों को बहुत परेशान करते थे  | जिससे त्रस्त होकर  दोनों को मार दिया  | इसके बाद उसने खुद पुलिस के सामने जाकर आत्मसमर्पण कर दिया  |   डकैत बबुली के मौत पर रोज नए खुलासे हो रहे हैं  | इसके बाद मध्यप्रदेश पुलिस की जमकर किरकिरी हो रही है  | मध्यप्रदेश पुलिस के एनकाउंटर की कहानी में भी जमकर झोल झाल है | ऐसे में उत्तरप्रदेश पुलिस का कहना है कि डकैत बबुली की गैंग का सफाया  उसी के साथियों ने किया  | डकैत सोहन और लाली कोल की कहानी लगभग एक जैसी है जो मध्यप्रदेश पुलिस को कटघरे में खड़ा कर रही है  |  

Dakhal News

Dakhal News 23 September 2019


 पेट्रोल,डीजल के दाम

  वचन पत्र से मुकरी कमलनाथ सरकार,दाम घटाने था वादा   किसान और मध्यम वर्ग पर पड़ेगी पेट्रोल-डीजल की मार   कांग्रेस की कमलनाथ सरकार अपने वचन पत्र में किये पेट्रोल और  डीजल के दाम  घटाने के  वादों को भूल गई है |  कमलनाथ सरकार ने   पेट्रोल , डीजल पर  पांच पांच प्रतिशत वैट बढ़ा दिया है | जिसके  बाद पेट्रोल में औसतन 2 रूपये 91 पैसे   और डीजल में 2  रुपये 86 पैसे लीटर  महँगा हो गया  है | बारिश की मार झेल रही प्रदेश  की  जनता और किसान  को अब पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ने से दोहरी मार झेलनी पड़ेगी |   मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार ने पेट्रोल ,डीजल और शराब में पांच प्रतिशत वैट बढ़ा दिया है | जिसके चलते पेट्रोल और  डीजल के दाम लगभग ढाई से तीन रुपये तक बढ़ गया है|  चुनाव से पहले कांग्रेस ने वचन पत्र में किये वादों को अब भुला दिया है | चुनाव से पहले वचन पत्र में पेट्रोल और डीजल के दाम घटाने का वचन दिया गया था | लेकिन वक़्त है बदलाव का नारा देने वाली कमलनाथ सरकार ने  दाम घटाने के बजाय  9  महीने में ही पेट्रोल , डीजल के दाम बढ़ा दिए | जनसम्पर्क मंत्री ने कहा की दाम अस्थाई रूप से बढ़ाये गए है | बढे हुए दामों से बाढ़ पीड़ितों की सहायता हो सकेगी |    सरकार को उम्मीद है कि इस कदम से हर माह खजाने में 225 करोड़ रुपए अतिरिक्त राजस्व बढ़ेगा  | वाणिज्यिक कर विभाग ने शुक्रवार को वैट अधिनियम में संशोधन करने की अधिसूचना जारी कर दी है | नई दरें शुक्रवार रात बारह बजे से प्रभावी हो गई हैं  |  अब भोपाल  में पेट्रोल 81. 05  और डीजल में 72. 42 रुपये हो गया है  | शराब में वैट पांच से बढ़ाकर दस प्रतिशत किया गया है  | भाजपा ने दाम बढ़ने पर कमलनाथ सरकार पर निशाना साधा और कहा की  दाम बढ़ने से आम आदमी परेशान है  | उधर जनता ने भी दाम बढ़ने पर रोष व्यक्त किया है  |  

Dakhal News

Dakhal News 23 September 2019


जीतू पटवारी

उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने लंदन में कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय के हेड ऑफ कम्युनिकेशन  स्टूअर्ट ‍गिबलिन से साक्षातकार के दौरान 'वसुधैव कुटुम्बकम्' का संदेश दिया। उन्होंने कहा कि भारत एवं भारतीय संस्कृति वसुधैव कुटुम्बकम् का भाव रखने वाली संस्कृति है। हम पूरे विश्व को अपना परिवार मानते हैं। हमारे भारत देश में पेड़-पौधे, पशु-पक्षी की पूजा होती है। हम प्रकृति के न्याय को मानते हैं। उन्होंने कहा कि इस सृष्टि में कहीं भी, किसी प्रकार की नफरत के लिये स्थान नहीं है।   मंत्री  पटवारी ने कहा कि महात्मा गांधी के अंहिसा के सिद्धांत को पूरे विश्व ने आत्मसात किया है। महात्मा गांधी ने हमें सिखाया कि क्षमा क्या होती है। पटवारी ने कहा कि पूरे विश्व में आज चुनौती है मानव जाति को भेदभाव और जातीय नफरत से बचाने की। युवाओं को रोजगार एवं पर्यावरण संरक्षण जैसे मुद्दों पर सजग बनाने की। उन्होंने कहा कि युवा पीढ़ी को यह समझना आवश्यक है कि परिवार और देश की उन्नति तभी सम्भव है, जब हमें स्वच्छ वातावरण और पर्यावरण मिले। पटवारी ने कहा कि आने वाली पीढ़ी को लाभ पहुँचाने के लिये पर्यावरण को बचाना और मानव सभ्यता की रक्षा करना जरूरी है। भारतीय संस्कृति एकजुटता का संदेश देती है।   उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि भारत ने योग के माध्यम से स्वस्थ्य रहने का संदेश पूरे विश्व में दिया है। उन्होंने युवाओं को भारत आने का आमंत्रण देते हुए कहा कि हम युवाओं की योग्यता को पूर्णता के साथ अपनायेंगे। पटवारी ने आव्हान करते हुए कहा कि भारत के ह्रदय स्थल मध्यप्रदेश में जो शिक्षा के क्षेत्र में अपना योगदान देना चाहते है, हम उनका स्वागत करते हैं।    

Dakhal News

Dakhal News 20 September 2019


मोदी भाषण

  मोदी बोले - हमें नया कश्मीर बनाना है   पीएम नरेंद्र मोदी ने महाराष्ट्र के नासिक से  चुनावी मिशन का शंखनाद किया | नासिक की रैली में पीएम मोदी ने दो अहम मुद्दे उठाये  |  कश्मीर और राम मंदिर का | पीएम मोदी ने कहा कि राम मंदिर पर कुछ लोग बेवजह बयानबाजी कर रहे हैं  | उन्हें न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है |     प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नासिक में कहा  हमने वादा किया था कि देश की सेना को सशक्त बनाने और अपने सैनिकों के सशक्तिकरण के लिए हर कदम उठाएंगे  |  हाल में दो महाशक्तिशाली हैलिकॉप्टर हमारी सैन्य शक्ति का हिस्सा बन चुके हैं, बहुत जल्द राफेल फाइटर जेट भी हमारी वायुसेना को सशक्त करेगा 'दुनिया के 100 से ज्यादा देशों को आज भारत में बनी बुलेट प्रूफ जैकेट निर्यात की जा रही है. भाजपा सरकार का मतलब ही है देश की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता है  |  हमारे लिए देश से बड़ा कुछ नहीं है  | कश्मीर को लेकर पीएम मोदी ने कहा, ''हमने पूरे देश से वादा किया था कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख की समस्याओं के समाधान के लिए नए प्रयास करेंगे  | ....     मोदी ने कहा | जम्मू कश्मीर में भारत के संविधान को समग्रता से लागू करना सिर्फ एक सरकार का फैसला नहीं है, ये 130 करोड़ भारतीयों की भावना का प्रकटीकरण है पीएम ने कहा, ''कल तक हम कहते थे- कश्मीर हमारा है, अब हर हिंदुस्तानी कहेगा, हमें नया कश्मीर बनाना है, हर कश्मीरी को गले लगाना है और हमें वहां फिर से स्वर्ग बनाना है  |  देश को एहसास है कि इस फैसले की आड़ में अस्थिरता और अविश्वास फैलाने की तमाम को कोशिशें सीमा पार से हो रही हैं | जम्मू-कश्मीर में हिंसा भड़काने की भरपूर कोशिश हो रही है, लेकिन जम्मू कश्मीर की आवाम इस हिंसा से बाहर निकलने का मन बना चुकी है  |   

Dakhal News

Dakhal News 20 September 2019


रक्षा मंत्री -तेजस

  तेजस में उड़ान भरने वाले पहले रक्षामंत्री  राजनाथ   रक्षामंत्री राजनाथ सिंह नेआज स्वदेशी हल्के लड़ाकू विमान तेजस में उड़ान भरी  | बेंगलुरु के सेंटर से तेजस विमान में वे सवार हुए थे राजनाथ सिंह  देश के पहले रक्षा मंत्री भी बन गए हैं जिसने तेजस विमान में उड़ान भरी  |   तेजस विमान को एचएएल ने तैयार किया है।   तेजस के साथ उस समय इतिहास बन गया  | जब रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने इसने उड़ान भरी  |  बेंगलुरु के सेंटर से तेजस विमान में वे सवार हुए थे | राजनाथ सिंह  देश के पहले रक्षा मंत्री भी बन गए हैं जिसने तेजस विमान में उड़ान भरी  लड़ाकू विमान के नौसेना संस्करण की सफल अरेस्ट लैंडिंग करवाई जा चुकी है  |  इसके साथ ही भारत उन चुनिंदा देशों के समूह में शामिल हो गया है जो विमानवाहक पोत पर उतरने में सक्षम जेट विमान का डिजाइन तैयार करने में सक्षम हैं |  तेजस की स्पीड उस वक्त 244 किलोमीटर प्रति घंटा थी और सिर्फ दो सेकंड में उसे जीरो कर लैंड कराया गया | तेजस में रक्षा मंत्री की यह उड़ान उस वक्त  हुई  है जब HAL को देश में बनाए जाने वाले 83 एलसीए मार्क 1ए विमान के निर्माण के लिए 45 हजार करोड़ रुपये की परियोजना मिलने वाली है  |         

Dakhal News

Dakhal News 19 September 2019


संत समागम सम्मेलन

  मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ का संत समागम सम्मेलन में संबोधन   मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा है कि जिन संतों की कुटिया आश्रम, मंदिर एवं गौ-शाला हैं, उन्हें स्थाई पट्टा देने पर सरकार विचार करेगी। मुख्यमंत्री आज यहाँ मिंटो हॉल में अध्यात्म विभाग द्वारा आयोजित संत समागम सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। सम्मेलन में बड़ी संख्या में प्रदेश भर से आए साधु-संत शामिल हुए। प्रारंभ में सम्मेलन में सभी संतों की ओर से आशीर्वाद स्वरूप कम्प्यूटर बाबा ने मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ को पुष्पमाला भेंट की।   युवा पीढ़ी को अध्यात्म शक्ति से जोड़ें   मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा कि पूरे विश्व में भारत अपनी अध्यात्मिक शक्ति के कारण पहचाना जाता है। यही वह शक्ति है, जो हमारे देश की पहचान अनेकता में एकता को कायम रखे है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज की पीढ़ी, जो नई तकनीक से जुड़ी हुई है और विशेषकर शहरी क्षेत्रों में रह रही है, उसे अध्यात्मिक शक्ति, संस्कृति और सभ्यता से जोड़ने की आवश्यकता है। उन्होंने संतों से आग्रह किया कि वे इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभाएँ और हमारी हजारों साल पुरानी अध्यात्मिक शक्ति से उनका परिचय कराएँ।   35 साल पहले बताई थी लोकसभा में अध्यात्म मंत्रालय की जरूरत   मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा कि 35 साल पूर्व उन्होंने एक चर्चा के दौरान अध्यात्म मंत्रालय का गठन करने को कहा था। उन्होंने कहा कि इसके पीछे उनकी मंशा थी कि पूरे देश में लोग भारतीय अध्यात्म के महत्व और देश की एकता के संदर्भ में उसकी जरूरत को जान सकें। श्री कमल नाथ ने कहा कि जैसे ही उन्होंने मुख्यमंत्री पद सम्हाला, सबसे पहले उन्होंने आनंद एवं धर्मस्व विभाग को मिलाकर अध्यात्म विभाग गठन करने का निर्णय लिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि इसके जरिए हम प्रदेश में लोगों को अपनी इस सदियों पुरानी अध्यात्म साधना से जोड़ने का प्रयास करेंगे।   धर्म के नाम पर हुए घोटालों की जाँच होगी   मुख्यमंत्री श्री नाथ ने कहा कि धर्म के नाम पर पूर्व में जो घोटाले किए गए हैं, सरकार उनकी जाँच कराएगी। उन्होंने कहा कि धर्म के प्रति अगर आस्था है, तो कोई घोटाले कैसे कर सकता है। हमें यह समझना होगा कि हमारी नीयत और भावना से चरित्र का निर्माण होता है। जो व्यक्ति धर्म की आड़ में घोटाले करे, वह कभी भी आस्थावान नहीं हो सकता, न ही वह अपने धर्म का सम्मान करता है।   दिमाग नहीं, दिल से धर्म का सम्मान करते हैं   मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा कि धर्म हमारे लिए राजनीति का विषय नहीं है। यह हमारे लिए आस्था और सम्मान का विषय है। हम चाहते हैं कि लोग धार्मिक आस्थाओं से जुड़ें, लेकिन उसके जरिए की जाने वाली राजनीति को नकारें। उन्होंने संत समागम सम्मेलन की सराहना करते हुए कहा कि समय-समय पर ऐसे सम्मेलन होते रहने चाहिए। उन्होंने साधु संतों की माँगों पर कहा कि सरकार उस पर विचार करेगी और प्रयास किया जाएगा कि अगले सम्मेलन तक उनकी कोई भी माँग अधूरी न रहे।   संत समागम सम्मेलन की अध्यक्षता करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री श्री दिग्विजय सिंह ने कमल नाथ सरकार के प्रति आभार व्यक्त किया कि उन्होंने अध्यात्म विभाग का गठन किया है। उन्होंने कहा कि अध्यात्म एक अच्छे व्यक्तित्व के निर्माण में मदद करता है। धर्म का उपयोग लोगों को बांटने के लिए नहीं, जोड़ने में किया जाना चाहिए। श्री सिंह ने कहा कि सनातन धर्म विश्व का सबसे प्राचीन धर्म है। इसे संरक्षित करने के लिए हम सबको योगदान देना चाहिए। उन्होंने माँ नर्मदा नदी को हुई क्षति की पूर्ति करने और उसे संरक्षित करने पर जोर दिया। उन्होंने प्रदेश की सभी संस्कृत पाठशालाओं को संरक्षण देने को कहा। युवा पीढ़ी को सनातन धर्म के प्रति शिक्षित करने और दूसरे धर्मों की जानकारी देने की आवश्यकता बताई। इसके लिए पाठ्यक्रमों में 'धर्म क्या है ?' पाठ जोड़ने का आग्रह किया।   जनसम्पर्क एवं अध्यात्म मंत्री श्री पी.सी. शर्मा ने कहा कि राज्य सरकार ने मठ-मंदिर सलाहकार समिति का गठन किया, नर्मदा ट्रस्ट बनाया और अब ताप्ती ट्रस्ट का भी गठन करने जा रही है। संत-पुजारियों का मानदेय तीन गुना बढ़ाया गया है। महाकाल मंदिर परिसर का तीन सौ करोड़ से विकास किया जा रहा है। एक हजार शासकीय गौ-शालाएँ बनाई जा रही हैं। नर्मदा परिक्रमा मार्ग पर नौ धर्मशालाओं का 26 लाख से निर्माण किया जाएगा। साथ ही नर्मदा परिक्रमा मार्ग को सुगम बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि राम पथ वनगमन निर्माण योजना बनाई गई है। श्री शर्मा ने बताया कि प्रदेश के बड़े मंदिरों के जीर्णोद्धार के लिए 2 करोड़ 45 लाख 9 हजार रुपए दिए गए हैं। धार्मिक महत्व के मेलों के लिए 1 करोड़ 34 लाख 70 हजार रुपए मेला अयोजन समितियों को दिए गए हैं। इसके अलावा भिलसा वाली माता ग्वालियर, सूर्य नारायण एवं बड़े हनुमान मंदिर जबलपुर, कुण्डेश्वर हनुमान मंदिर उज्जैन, नर्मदा उद्गम मंदिर अमरकंटक, बाण गंगा मंदिर शिवपुरी और दतिया के मंदिर समूह के निर्माण, मरम्मत रखरखाव की योजना बनाई गई है।   नर्मदा ट्रस्ट अध्यक्ष संत श्री कम्प्यूटर बाबा ने मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ के प्रति आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश में अध्यात्म विभाग बनाने के साथ ही धार्मिक स्थलों के विकास के लिए महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें विश्वास है कि श्री कमल नाथ जो कहते हैं, उसे वह पूरा करते हैं।   मठ-मंदिर सलाहकार समिति अध्यक्ष स्वामी सुबोधानंद महाराज ने कहा कि पिछले 15 साल में इस तरह का कोई सम्मेलन नहीं हुआ। पिछले नौ माह में ही नई सरकार ने पहली बार साधु-संतों का सम्मेलन बुलाकर सराहनीय पहल की है। इसके लिए मुख्यमंत्री बधाई के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि नर्मदा को संरक्षित करने के लिये नई सरकार ने जो कदम उठाए हैं, वे स्वागत योग्य हैं। उन्होंने संतों से आग्रह किया कि वे पर्यावरण संरक्षण के लिए व्यापक पैमाने पर पौधा-रोपण करें।    

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2019


loc pak

  सफ़ेद झंडा दिखा कर पाकिस्तानी ले गए शव   पकिस्तान सीमा पर लगातार नापाक हरकतें कर रहा है और भारतीय सेना उसका मुहतोड़ जवाब दे रही है  | सीजफायर का  उल्लंघन कर पकिस्तान भरता में आतंकवादियों को घुसपैठ करवाने की कोशिश में है  | भारत ने ऐसी ही एक कोशिश को नाकाम किया  जिसमें दो पाक सैनिक मारे गए  |  जिसके बाद   पाकिस्तान ने सफ़ेद झंडा दिखाया और अपने सैनिकों के शव उठा ले गया |   सीमा पर आतंकवादियों की घुसपैठ करवाने के लिए पकिस्तान लगातार सीज फायर का उलंघन कर रहा है  | भारतीय सेना भी ऐसे में पकिस्तान को मुहतोड़ जवाब दे रही हैं  | दो दिन पहले भी पाकिस्तान ने  सीजफायर का उल्लंघन किया तो भारत ने उसे उसी की भाषा में जवाब दिया  |  इस दौरान पाकिस्तान के दो सैनिक मारे गए थे | उन सैनिकों के शवों को उठाने के लिए पाकिस्तान को सफेद झंडा उठाना पड़ा  | युद्ध के दौरान सफेद झंडा दिखाने का मतलब समर्पण करना या युद्धविराम करना होता है  | सैन्य सूत्रों के मुताबिक 10-11 सितंबर को भारतीय सेना की टुकड़ी ने पाकिस्तान के एक सैनिक गुलाम रसूल को पीओके के काजीपुर सेक्टर में मार गिराया था  |  सैनिक रसूल पाकिस्तान के पंजाब प्रांत बहावलनगर का रहने वाला था  |  इसके बाद पाकिस्तानी सैनिकों ने गोलाबारी तेज कर दी थी और सैनिक के शव को ले जाने की कोशिश की, इस दौरान रसूल का शव उठाने आया एक पाक सैनिक भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में मारा गया  | दो दिन तक कोशिश करने के बाद भी जब पाकिस्तानी सेना अपने जवानों के शव नहीं उठा सकी तो 13 सितंबर को पाकिस्तान की ओर से शवों को उठाने के लिए सफेद झंडा दिखाया गया  |  इसके बाद भारतीय सेना द्वारा पाक को शव उठाने दिए गए   |   

Dakhal News

Dakhal News 14 September 2019


दस सैकेंड और हादसा

  वो आखिर 10 सैकेंड जो कई जान लील गए चार मिनिट 17 सैकेंड में कैद है पूरा हादसा   पुरानी कहावत  | सावधानी हटी और दुर्घटना घटी भोपाल के छोटे तालाब पर देखने को मिली  |  जब गणेश विसर्जन में हुई जरा सी चूक ने कई युवाओं को मौत की नींद सुला दिया  चार मिनिट 17 सैकेंड के वीडिओ में ये हादसा कैद है लेकिन आखिरी के दस सैकेंड कैसे जानलेवा हुए ये हम आपको दिखते हैं  |    गणेश विसर्जन के बाद मात्र दस सैकेंड में नाव ने हिचकोले खाये और वह तालाब में डूब गई  | कोई कुछ समझ पाता तह तक बहुत देर हो चुकी थी  | गणेश विसर्जन के वक्त ऐसा क्या हुआ  | उसे समझने के लिए इस वीडियो को देखिये  ये चार मिनिट सत्रह सैकेंड का वीडिओ इस हादसे का गवाह है  |  भोपाल के पिपलानी इलाके के गणेश मंडल के युवा एक जुलुस की शक्ल में नाचते गाते सात किलोमीटर का सफर कर पुलिस हेडक्वार्टर के पास बने  | खटलापुरा  घाट  पहुंचे  घाट पर पूजा अर्चना के  बाद विसर्जन करने वाले नाविकों से पैसे कम करने पर युवाओं की  बातचीत होती है  | उस समय घड़ियाँ सुबह के साढ़े चार बजा रही थीं  | वातावरण में ठंडक के साथ अँधेरा भी था  | दो नावों को जोड़कर एक किया गया था और उस पर विसर्जन के लिए गणपति की 14 फिट ऊँची प्रतिमा को  रखा गया  नाव को बैलेंस करने के लिए विसर्जन करने आये युवाओं में से तकरीबन पंद्रह युवकों को नाव में बैठाया गया   | ऐसे में प्रशासन नाम की कोई चीज यहाँ नहीं है न नाविक के पास लाइफ जॉकेट हैं न युवाओं के पास  | नाव किनारे छोड़ कर तालाब के मध्य पहुंची  |  नाव से प्रतिमा को इस तरह धकेलना था कि वह सीधे पानी में जाए  | किनारे से नाव चले चार मिनिट बीत गए  | गणेश जी की प्रतिमा थोड़ा तिरछी हुई और पानी में सीधे जाने की बजाए एक साइड से झुकी और पानी में समा गई  लेकिन यह क्या आखिर के दस सैकेंड में यह नाव खुद डूब गई  ... कुछ युवा बचने के लिए तैर रहे थे तो कुछ डूब रहे थे  | ऐसे में एक अन्य नाविक ने सहस दिखाकर युवाओं को बचाने की कोशिश की लेकिन उसकी भी नाव बेकाबू हो कर डूब गई  | किनारे खड़े कुछ युवाओं ने पानी में छलांग लगाईं और कुछ युवाओं को बचा लाये अगर भोपाल की पुलिस और प्रशासन दुरुस्त होता तो शायद ये हादसा न होता |   

Dakhal News

Dakhal News 14 September 2019


kicten

भोपाल, रायसेन के शहरी क्षेत्रों के 35,000 स्कूली बच्चों को आधुनिक किचन से मध्यान्ह भोजन अक्षयपात्र फाउंडेशन, एच.ई.जी.लि. मंडीदीप, भोपाल-रायसेन जिला पंचायत में हुआ समझौता मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा अत्यंत नेक काम   भोपाल और रायसेन जिले के शहरी क्षेत्रों के 35,000 विद्यार्थियों को गुणवत्तापूर्ण मध्यान्ह भोजन उपलब्ध कराने के लिये मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ की उपस्थिति में आज यहाँ मंत्रालय में एच.ई.जी.लि. मंडीदीप और अक्षयपात्र फाउंडेशन तथा भोपाल एवं रायसेन जिला पंचायतों के बीच एम.ओ.यू. पर हस्ताक्षर हुए। अक्षयपात्र फाउंडेशन अत्याधुनिक किचन स्थापित करेगा और भोपाल एवं रायसेन के शहरी क्षेत्रों की शालाओं में मध्यान्ह भोजन पहुँचायेगा। अत्याधुनिक किचन स्थापित करने के लिये एलएनजे भीलवाड़ा ग्रुप के चैयरमेन श्री रवि झुनझुनवाला ने एच.ई.जी.लि. मंडीदीप की ओर से सामाजिक दायित्व निभाते हुए अक्षय पात्र फाउंडेशन को 7.30 करोड़ रुपए की अनुदान राशि प्रदान की है। मुख्यमंत्री ने अक्षय पात्र फाउंडेशन द्वारा बच्चों को भोजन देने के कार्य को नेक काम बताते हुए इस प्रयास की प्रशंसा की और अन्य जिलों में भी इसके विस्तार की संभावनाएँ तलाशने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री ने इस नेक काम में सहयोग देने के लिये एच.ई.जी. ग्रुप की सराहना की। मुख्यमंत्री ने कहा कि भोजन की कमी या अनुपलबधता के कारण शिक्षा में कमी आना या शिक्षा छूट जाना अप्रिय स्थिति है। राज्य सरकार प्राथमिक और माध्यमिक शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के लिये प्रतिबद्ध है। एच.ई.जी.लि. की ओर से अध्यक्ष श्री रवि झुनझुनवाला, सी.ओ.ओ. श्री मनीष गुलाटी और अक्षयपात्र फाउंडेशन की ओर से  इसके उपाध्यक्ष श्री चंचलपति दास ने एम.ओ.यू. पर हस्ताक्षर किए। भोपाल जिला पंचायत की ओर से मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सतीश कुमार एस. एवं रायसेन जिला पंचायत की ओर से मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री अभि प्रसाद ने हस्ताक्षर किए। उल्लेखनीय है कि अक्षय पात्र फाउंडेशन देश के 12 राज्यों की शासकीय शालाओं में 17.7 लाख बच्चों को मिड-डे मील कार्यक्रम के माध्यम से गुणवत्तापूर्ण भोजन पहुँचा रहा है। इसका लक्ष्य 50 लाख बच्चों को भोजन पहुँचाना है। यह काम 43 अत्याधुनिक किचन और वितरण के लिये विशेष वाहनों के माध्यम से किया जा रहा है।  इस अवसर पर अक्षयपात्र फाउंडेशन की ओर से मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ का सम्मान किया गया। ग्रामीण विकास मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्री अशोक वर्णवाल, भोपाल कलेक्टर श्री तरूण पिथौड़े एवं वरिष्ठ अधिकारी,  अक्षयपात्र फाउंडेशन की ओर से संचालक श्री भरताश्रभ दास तथा सलाहकार श्री रवीन्द्र चमेरिया उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 11 September 2019


तेंदुआ -कड़कनाथ

  70 से ज्यादा कड़कनाथ को बनाया शिकार   कांकेर में एक तेंदुए को कड़कनाथ मार्गे का स्वाद ऐसा पसंद आया कि वह  रोज पोल्ट्री फॉर्म में आकर कड़कनाथ मुर्गे का शिकार करने लगा  | पोल्ट्री फॉर्म संचालकों ने इसकी जानकारी वन विभाग को दी तो इस तेंदुए को पकड़कर दूर जंगल में छोड़ा गया  |  कांकेर के ग्राम पंचायत ठेल्काबोर्ड के पोल्ट्री फार्म में लगातार एक सप्ताह से तेंदुआ घुसकर मुर्गियों को अपना शिकार बना रहा था  |  यह तेंदुआ यहाँ कड़कनाथ प्रजाति के मुर्गे -मुर्गियों को अपना शिकार बनता था और कुछ ही दिन में ये 70 मुर्गे चट कर गया   | इस तेंदुए की जानकारी वन विभाग को दी गई   वन विभाग ने पोल्ट्रीफार्म में पिंजरा लगा दिया और बीती रात फिर शिकार करने पहुंचा तेंदुआ पिंजरे में कैद हो गया  | तेंदुए के पिंजरे में कैद होने की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची वन विभाग की टीम ने तेंदुए को पकड़कर शहर से दूर जंगल में छोड़ दिया है  | तब जाकर गांव के लोगों ने राहत की सांस ली | इस  तेंदुए ने अब तक करीब 70 से अधिक कड़कनाथ मुर्गों को अपना शिकार बना चुका था  |  जिससे गांव और दुकानदार दहशत में थे  | कड़कनाथ के चक्कर में यह तेंदुआ हमेशा गांव के आसपास घूमता रहता    वन विभाग ने कई दफा तेंदुए को पकड़ने के लिए पिंजरा लगाया, लेकिन वो उसमें फंस नहीं रहा था   लोग तेंदुए के खौफ की वजह से शाम 6 बजते ही अपने घरों के दरवाजे बंद कर अंदर दुबक कर रहते थे  | बता दें कांकेर शहर और उसके आस-पास के इलाके में लंबे समय से हिंसक वन्य जीवों का आतंक रहा है। पिछले दिनों मॉर्निंग वॉक पर निकले एक व्यक्ति पर तेंदुए ने हमला किया था  |   

Dakhal News

Dakhal News 10 September 2019


आतंकी

  लश्कर ए तैयबा के लिए करते हैं काम   जम्मू कश्मीर पुलिस को  बड़ी सफलता हाथ लगी है | पुलिस ने आतंकियों की मदद करने वाले 8 सहयोगियों को गिरफ्तार किया है |  ये सभी लोग स्थानीय लोगों को डराने के साथ ही उन्हें भड़काने के लिए विवादित पोस्टर्स का प्रकाशन करते थे |    सोपोर पुलिस इन आतंकवादियों से हाल ही में सिविलयन क्षेत्र में की गई हत्याओं के बारे में भी पूछताछ कर रही है | पुलिस ने इन आतंकियों के पास से कम्प्यूटर के साथ ही अन्य सामग्री भी बरामद की है | ...  इसमें पोस्टर प्रकाशन के लिए ड्राफ्टिंग भी पाई गई है |  बताया जा रहा है कि पुलिस पूछताछ के दौरान खुलासा हुआ है कि इन 8 आतंकियों में से 3 आतंकी लश्कर ए तैयबा के सहयोगी हैं जो मुख्य अभियुक्त भी हैं | पुलिस ने सभी विवादित सामग्री को जब्त कर लिया है |  इन लोगों द्वारा पोस्टर तैयार करने के साथ ही उन्हें स्थानीय इलाकों में पहुंचाया था | पता चला है इन्हें इस काम के लिए आतंकी फंडिंग भी करते हैं |

Dakhal News

Dakhal News 10 September 2019


kamalnath

कमलनाथ के खिलाफ दो लोग गवाही देने को तैयार  मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार में अंदुरुनी कलह इस कदर बढ़ गया हैं की कमलनाथ की कुर्सी डोलने लगी हैं |  कमलनाथ की मुश्किल इतनी ही नहीं हैं उनके पुराने मामलों को भी हवा देना लोगो ने शुरू कर दिया हैं |  सिख दंगों में कमलनाथ की मुश्किल बढ़ गयी हैं |  सिरसा ने इस्तीफा मांगा हैं |   अकाली नेता ने दावा किया कि कमलनाथ के खिलाफ दो लोग गवाही देने को तैयार हैं |  1984 के सिख दंगों में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ की मुश्किल बढ़ गई है। मामले में गठित SIT ने कमलनाथ के खिलाफ केस फिर से खोलने की बात कही है। इसके बाद विरोधियों ने कांग्रेस नेता पर हमले तेज कर दिए हैं। शिरोमणि अकाली दल के नेता मनजिंदर सिंह सिरसा का कहना है कि कमलनाथ के खिलाफ यह बड़ी जीत है। बकौल सिरसा, मैंने पिछले साल कमलनाथ के खिलाफ गृहमंत्रालय में शिकायत की थी। अब नोटिफिकेशन जारी हुआ है और केस नंबर 601/84 में फिर से जांच शुरू होगी तथा कमलनाथ के खिलाफ ताजा सबूतों पर अमल किया जाएगा। सिरसा ने बताया कि दो गवाह सामने आए हैं। हमने उनसे बात की है। उन्हें SIT जब भी बुलाएगी, वे बयान देने को राजी हैं। दोनों में हमें बहुत कुछ बताया है। हमने दोनों गवाहों की सुरक्षा की मांग भी करते हैं। सिरसा का आरोप है कि इंदिरा गांधी की हत्या के बाद दिल्ली के गुरुद्वारा रकबगंज के बाद भड़की हिंसा में कमलनाथ का हाथ था।साथ ही सिरसा ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मांग की कि वे कमलनाथ को तत्काल मुख्यमंत्री पद से नीचे उतारे और सिखों के साथ न्याय करें।

Dakhal News

Dakhal News 9 September 2019


pm मोदी

  दुनिया गंभीर जल संकट के दौर से गुजर रही है   ग्रेटर नोएडा में हो रहे कॉप-14 में हिस्सा लेने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी सरकार द्वारा पर्यावरण और धरती को बचाने के लिए उठाए जा रहे कदमों का जिक्र करने के साथ ही सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग बंद करने की अपील दुनिया भर के लोगों से  की |    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि मेरी सरकार ने घोषणा की है कि भारत आने वाले सालों में सिंगल यूज प्लास्टिक के उपोयग पर प्रतिबंध लगाएंगे  |  मेरा मानना है कि वक्त आ गया है जब दुनिया के सभी देश इस सिंगल यूज प्लास्टिक को अलविदा कह दें  |  प्रधानमंत्री ने कहा कि पानी का प्रबंधन भी एक अहम मुद्दा है और इसे ध्यान में रखते हुए मेरी सरकार ने जल शक्ति मंत्रालय बनाया है जो पानी से जुड़े हर महत्वपूर्ण मुद्दे को देखेगा  |  प्रधानमंत्री ने कहा कि आज दुनिया गंभीर जल संकट के दौर से गुजर रही है  |  जब हम मरुस्‍थलीकरण पर बात करते हैं तो जल संकट जैसी समस्‍या पर भी विचार करना पड़ता है | हमें जमीन को मरुस्‍थलीकरण से बचाने के लिए जल संरक्षण पर भी ध्‍यान देना होगा |     मोदी ने कहा भारत की संस्‍कृति में धरती, जल, वायु और पर्यावरण के संरक्षण की संकल्‍पना मौजूद है  |  हमें यह बताते हुए खुशी हो रही है कि भारत में साल 2015 से साल 2017 के बीच वनीकरण में 0.8 मिलियन हेक्‍टेयर का इजाफा हुआ है  | प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत में सदा से धरती को पवित्र स्‍थान दिया गया है  | भारतीय संस्‍कृति में भूमि को माता माना गया है  | भारत के लोग सुबह सोकर उठने के बाद धरती को नमन करके दिन की शुरुआत करते हैं |     

Patrakar amitabh upadhyay

amitabh upadhyay 9 September 2019


चंद्रयान

  चन्द्रमा पर झुका हुआ पड़ा है विक्रम   इसरो के वैज्ञानिकों ने देशवासियों को एक अच्छी खबर दी है कि चंद्रयान2 के साथ भेजे गए विक्रम लैंडर को चंद्रमा की सतह पर खोज निकाला गया है  | अच्छी बात यह है कि यह सिंगल पीस में है यानी टूटा नहीं है और चंद्रमा की सतह पर झुका हुआ पड़ा है  |  भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने कहा कि वैज्ञानिकों की टीम विक्रम लैंडर से संपर्क करने की पूरी कोशिश कर रही है  |    विक्रम लैंडर का नाम भारत के अंतरिक्ष कार्यक्रम के पिता विक्रम साराभाई के नाम पर रखा गया  | चंद्रयान-2 मिशन के ऑर्बिटर के साथ शनिवार को इसका संपर्क चंद्रमा की सतह से महज 2.1 किमी की दूरी पर  टूट  गया था  | यह चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव के पास नरम-भूमि पर था | चंद्र ऑर्बिटर 100 किमी की ऊंचाई पर चंद्रमा के चारों ओर जा रहा है  | इसने चंद्रमा की सतह पर लैंडर की एक थर्मल इमेज ली थी  |ऑर्बिटर का कैमरा किसी भी चंद्र मिशन में अब तक इस्तेमाल किया गया, सबसे ज्यादा हाई रेजोल्यूशन वाला कैमरा है | इसरो के एक अधिकारी ने कहा कि थर्मल इमेज से पता चलता है कि लैंडर ने उस जगह के पास एक सख्त लैंडिंग थी, जहां इसे उतारने की योजना थी  | लैंडर एक ही टुकड़े के रूप में है और उसमें कोई टूट-फूट नहीं हुई है  | यह एक झुकी हुई स्थिति में है |    

Dakhal News

Dakhal News 9 September 2019


PM Modi rally

  देश में संकल्पों के साथ जीने की ताकत   पीएम मोदी ने अपनी रोहतक रैली में कहा कि वह रोहतक में ऐसे वक्त आए हैं जब उनकी सरकार के सौ दिन पूरे हो रहे हैं   जनता से मिले समर्थन से ही सरकार बड़े फैसले ले पाई है   | बैंकिंग व्यवस्था को मजबूत करने के लिए अहम फैसले लिए गए हैं  |  सौ दिनों में संसद सत्र में जितने बिल पास हुए उतना आज तक पिछले साठ साल में नहीं हुए थे  |  बीते सौ दिन में देश और दुनिया ने देखा है कि भारत अब हर चुनौती को चुनौती देता है  फिर चाहे जम्मू-कश्मीर व लद्दाख का मामला हो या गहराता जल संकट  |   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  ने कहा कि सात सितंबर को रात एक बजकर 50 मिनट पर पूरा देश टीवी पर नजरें गाड़कर बैठा था  |  चंद्रयान-दो की खुशखबरी के लिए देश-दुनिया देख रही थी  |   बाद के सौ सेकेंड में मैंने एक और साक्षात्कार किया  |  एक घटना ने पूरे देश को सौ सेकेंड में जगा दिया  | पूरे हिंदुस्तान को जोड़ दिया  | अब हिंदुस्तान में इसरो स्पिरिट है  |  देश नकारात्मकता को स्वीकार करने को तैयार नहीं है  |  देश पुरुषार्थ की पूजा करता है  देशवासियों का बदला मिजाज बहुत बड़ी पूंजी है  |  100 सेकेंड में हिंदुस्तान ने दिखा दिया कि जिस देश में संकल्पों के साथ जीने की ताकत होती है, वह इसरो स्प्रिट होता है  |  हम भाग्यवान हैं कि देश में ऐसी ऊर्जा है |     पीएम मोदी ने लोकसभा चुनाव में भाजपा को सभी दस सीटें जिताने के लिए हरियाणा के लोगों का आभार जताया  | कहा कि राजनीति के आज के युग में 55-60 प्रतिशत वोट पाना अपने आप में जनविश्वास व जन जाग्रति का दुर्लभ उदाहरण है  |  इसके लिए वह हरियाणा के लोगों का आभार व्यक्त करते हैं |पीएम ने कहा कि उन्हें तीसरी बार रोहतक में आने का मौका मिला है  | कहा कि वह एक बार फिर समर्थन मांगने के लिए आए हैं  |      

Dakhal News

Dakhal News 8 September 2019


भावुक -modi -sivaan

      मोदी से मिलकर भावुक हुए ISRO चीफ  सिवन   चांद से महज दो कदम दूर रहे गए भारत के महात्वाकांक्षी मिशन के विक्रम लैंडर से संपर्क टूटने के बावजूद देश भर में जहां इसरो के वैज्ञानिकों की तारीफ  हो रही है वहीं प्रधानमंत्री मोदी सुबह फिर से इसरे वैज्ञानिकों से मिलने और उनका हौसला बढ़ाने पहुंचे  |    जहाँ प्रधानमंत्री मोदी से मिलकर इसरो चीफ के सिवन भावुक हो गए |    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर सबका दिल जीत लिया | सभी वैज्ञानिकों से मुलाकात के बाद जब प्रधानमंत्री मोदी  लौट रहे थे तब एक ऐसा भावुक पल भी आया जब इसरो चीफ के सिवान प्रधानमंत्री से मिलकर अपनी  भावनाओं पर काबू नहीं रख सके  | जब मोदी वैज्ञानिकों से मिलकर अपनी कार की तरफ बढ़ रहे थे तभी इसरो चीफ प्रधानमंत्री से मिलते ही भावुक हो गए और उन्हें इस तरह भावुक देख प्रधानमंत्री मोदी ने उन्हें गले लगा लिया  और उन्हें जादू की झप्पी दी  |  पीएम मोदी ने के सिवान को काफी देर तक गले लगाए रखा और ढांढस बंधाते रहे  | आखिरकर, इसरो चीफ ने खुद को संभाला और इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने फिर से उनका हौंसला बढ़ाते हुए वहां से रवाना हुए  | यह एक ऐसा पल था जब यूं लग रहा था मानों प्रधानमंत्री एक बड़े भाई की तरह के सिवान को गले लगाकर यह कह रहे हों कि सब ठीक हो जाएगा  |   

Dakhal News

Dakhal News 7 September 2019


चंद्रयान

  चंद्रयान जुटाएगा चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव की जानकारी   चाँद के दक्षिणी ध्रुव से अब रहस्यों का पर्दा उठेगा  | भारत का चंद्रयान एक साथ कई सारे अध्ययन यहाँ करेगा | चंद्रयान 2 की मदद से पहली बार दुनिया के सामने चांद के दक्षिणी ध्रुव से जुड़ी जानकारी सामने आ सकेगी |  यह सब भारत के लिए एक बड़ी उपलब्धि है  | और अब चंदामामा दूर के भी नहीं रहे हैं |   भारत का Chandrayaan 2 अंतरिक्ष के क्षेत्र में एक नई इबारत लिख  रहा है |  चंद्रयान 2 की सॉफ्ट लैंडिग चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव के हिस्से में है |  जहां अब तक किसी भी देश का यान नहीं पहुंच सका है |  ऐसे में चंद्रयान 2 की सफल सॉफ्ट लैंडिंग भारत के साथ ही दुनिया के लिए भी काफी महत्वपूर्ण हो जाती है |  दरअसल, चंद्रयान 2 की मदद से पहली बार दुनिया के सामने चांद के दक्षिणी ध्रुव से जुड़ी जानकारी सामने आ सकेगी |  ये चंद्रमा पर आगे के मिशन के लिहाज से बेहद खास हो जाएगा | चंद्रयान 2 मिशन पर भारत के साथ ही अन्य देशों की भी नजर है  | क्योंकि इस मिशन के जरिये चंद्रमा से जुड़ी हुई ऐसी जानकारियां सामने आएंगी जो अब तक अनछुई रही हैं  |  मिशन का खास उद्देश्य वहां पानी और उसके संकेतों की खोज करना है  ...चंद्रयान 2 चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव की सतह के तत्वों का अध्ययन करेगा |  वहां की चट्टान और मिट्टी किन तत्वों से बनी हुई है, इसे देखेगा  |  वहां मौजूद चोटियों और खाईयों की स्टडी करेगा  |  चंद्रमा की सतह का घनत्व और उसमें परिवर्तन की स्टडी करेगा | चंद्रमा के आयनोस्फीयर में इलेक्ट्रानों की मात्रा का अध्ययन करेगा | चंद्रमा का एक दिन धरती के 14 दिन के बराबर है, इस अवधि के दौरान रोवर प्रज्ञान चंद्रमा की सतह पर कई प्रयोग करेगा  | मुख्य ऑर्बिटर मिशन की अवधि एक साल रहेगी  | इसरो के मुताबिक चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव के क्रेटर्स पर अरबों वर्षों से सूर्य प्रकाश नहीं पहुंचा है, ऐसे में उनमें सोलर सिस्टम की उत्पत्ति का रिकॉर्ड छुपा हो सकता है | इसरो ने वहां बड़ी मात्रा में पानी होने का अनुमान भी लगाया है  | इसके साथ ही चंद्रयान 2 से मिली जानकारी भविष्य में चंद्रमा के लिए भेजे जाने चंद्रयान के लिए बेहद काम की होगी |  इसरो  इस जानकारी की मदद से चंद्रमा पर मानव यान को भेजने के लिए भी जरूरी जानकारियां जुटा सकेगा |  

Dakhal News

Dakhal News 6 September 2019


आतंकी

  नए आतंकरोधी कानून के तहत हुआ फैसला    केंद्र की मोदी सरकार ने जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर और लश्कर-ए-तैयबा के संस्थापक हाफिज सईद को आतंकी घोषित कर दिया है |  इनके अलावा दाऊद इब्रहिम और जकी-उर-रहमान लखवी को भी संशोधित आतंक रोधी कानून के तहत आतंकी घोषित किया गया है |    केंद्र सरकार ने यह फैसला संसद द्वारा विधि विरुद्ध क्रियाकलाप निवारण संशोधन विधेयक- 2019 को मंजूरी दिए जाने के एक महीने बाद यह कदम उठाया है | गृह मंत्रालय द्वारा जारी नोटिफिकेशन में कहा गया है कि केंद्र सरकार का मानना है  | कि मौलाना मसूद अजहर आतंकी गितिविधियों में शामिल है और इसलिए उसे आतंकी घोषित किया जाता है |  वहीं सरकार का यह भी मानना है कि हाफिज सईद आतंकवाद में शामिल है इसलिए उसे भी आतंकी घोषित किया जाता है | मुंबई आतंकी हमलों का मास्टरमाइंड जकी-उर-रहमान लखवी और अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम को व्यक्तिगत आतंकी घोषित किया गया है | 

Dakhal News

Dakhal News 4 September 2019


आतंकवादी पकडे

  पाकिस्तान कर रहा शांति भंग करने की कोशिश   जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटने के बाद से ही पाकिस्तान लगातार शांति भंग करने की कोशिश में लगा है | इसी कड़ी में वो घाटी में आतंकियों की घुसपैठ में संघर्ष विराम का उल्लंघन कर उनकी मदद कर रहा है |  ऐसी ही घुसपैठ के माध्यम से घाटी में दाखिल हुए आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकियों को सुरक्षाबलों ने पकड़ा है |    पाकिस्तानी आतंकवादियों की  गिरफ्तारी के बाद सेना ने इनके वीडियो जारी किए हैं | जिनमें इन आतंकियों ने खुद को लश्कर से संबधित बताया है |  यह वीडियो लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लन ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में जारी किया है|  उनके साथ इस दौरान जम्मू-कश्मीर के एडीजी मुनीर खान भी थे | वीडियो जारी करते हुए लेफ्टिनेंट जनरल ने कहा कि पाकिस्तान लगातार घाटी में ज्यादा से ज्यादा आतंकियों की घुसपैठ की कोशिश में है ताकि घाटी की शांति को प्रभावित किया जा सके |  21 अगस्त को हमने दो पाकिस्तनी घुसपैठियों को पकड़ा है जो लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े हैं |     उन्होंने कहा कि पाकिस्तान लगातार आतंक फैलाने की कोशिश में है |  6 अगस्त को पत्थर लगने से घायल हुए शख्स असरार अहमद की मौत हो गई है | पिछले 30 दिनों में यह 5वीं मौत है | यह मौतें आतंकियों, पत्थरबाजों और पाकिस्तान की वजह से हो रही हैं |  

Dakhal News

Dakhal News 4 September 2019


अपराधी जुलूस

  ऑपरेशन थंडर अभियान में पकडे गए  गुंडे    रायपुर में पुलिस ने ऑपरेशन थंडर शुरू किया और कुछ ही घंटों में  220 अपराधियों को सीखचों के पीछे पहुँचाया | पुलिस ने इन अपराधियों का जुलूस निकला और अदालत पहुँचाया |    छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में पुलिस ने 220 पंजीबद्ध अपराधियों की बड़ा अभियान चलाकर गिरफ्तारी की और कोर्ट में पेश करने ले जाते समय उन्हें जुलूस की शक्ल में लेकर गए  |  इसकी दिन भर चर्चा होती रही  | पुलिस अधिकारियों के अनुसार गणेशोत्सव और आगामी त्यौहारों के दृष्टिगत हिस्ट्रीशीटरों, अपराधों में संलिप्त रहे लोगों की गिरफ्तारी की गई है  |  एएसपी सिटी प्रफुल्ल ठाकुर ने बताया कि पुलिस ने   ऑपरेशन थंडर अभियान चलाया था | जिसमें 20 थाना क्षेत्रों से 220 से ज्यादा निगरानी बदमाश और गुंडों को सोते समय घर से उठाया गया  | रविवार की दोपहर 1.30 बजे पुलिस कंट्रोल रूम से पकड़े गए सभी बदमाशों का जुलूस निकालकर कोर्ट ले जाया गया  | अभियान में कुछ ऐसे भी बदमाश मिले जिन पर एक दो नहीं, बल्कि कई थानों में शिकायतें दर्ज हैं | गणेशोत्सव के दौरान पिछले दस सालों से मारपीट करने वालों की भी पहचान कर उनकी भी गिरफ्तारी की गई है |    

Dakhal News

Dakhal News 4 September 2019


government hospital

क्यों ऐसे ही हैं सरकारी अस्पतालप्रदेश की स्वास्थ सेवाएं वेंटिलेटर परमंत्री तुलसी सिलवाट जी यह खबर आपको समर्पित हैं  | क्योंकि आपके जो दावे हैं प्रदेश को  बेहतर स्वास्थ्य सेवाऐ देने के  वो  बेईमानी हैं  मंत्री जी  इस खबर देखने के बाद आपकी आंखे शर्मिंदगी से झुक जाएँगी   | तो देखिये  सरकारी अस्पताल के हालात जो सुधरने के बजाय दिनों दिन बिगड़ते  जा रहे है  मगर  जिम्मेदार प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग गहरी नींद में सो रहा हैं  |   ध्यान दे भी तो क्यों सरकारी अस्पताल हैं  |  सो चल रहा हैं  | अव्यवस्था इस हद तक बढ़ चुकी हैं   | की यहां इलाज  के लिए आने वाले मरीजों और  उनके परिजनों को रोज परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है  |  कह सकते हैं कि आपके प्रदेश की स्वास्थ सेवाएं खुद वेंटिलेटर पर चल रही है  |  डॉक्टरों की कमी से जूझ रहे प्रदेश में चिकित्सा विशेषज्ञ के 3195 पद स्वीकृत हैं  | बाबजूद इसके महज 1210 पद ही भरे है  |  इनमें से भी केवल 1063 विशेषज्ञ है  प्रदेश में मेडिकल ऑफिसर की  कमी के कारण   | प्रदेश की स्वास्थ सेवाएं खुद वेंटिलेटर पर चल रही है  |  किन हालातों से मरीजों को दो चार होना पड़ रहा है  |  इसे जाने के लिए हमारे संवाददाता नरसिंहपुर के शासकीय जिला चिकित्सालय पहुचे और तफ्तीश की तो ऐसी हकीकत सामने आई जिससे स्वास्थ सुविधाओं के वादे करती सरकार के दावों की पोल खुल गई  | देखिए "दख़ल न्यूज़" की ग्राउंड रिपोर्ट  |  मध्य प्रदेश में मरीजों की भरमार है  | मगर  अस्पतालों में डॉक्टर कहीं नजर नहीं आते   |  और हालात हैं की  सुधरने के बजाय दिन-ब-दिन बिगड़ते ही जा रहे हैं  | जिसका खामियाजा बेबस मरीजों को उठाना पड़ रहा है  |   चूँकि सरकारी अस्पतालों में डाक्टरों की कमी हैं तो इसलिए डॉक्टरों के उपलब्ध रहने का समय सुबह 9 से शाम 4 बजे तक निर्धारित किया गया है  | मगर इस  निश्चित समय में डॉक्टर कभी नहीं मिलते  |   कैसे मिलेंगे यह बड़ा सवाल है  |  नरसिंहपुर की जिला अस्पताल में भी जब हमने डॉक्टरों को खोजना चाहा तो ड्यूटी टाइम में भी डॉक्टर नदारद ही मिले   .... हमें ऐसे कई मरीज मिल गए जो सुबह से दोपहर तक परिजन के साथ  डॉक्टरों को ही खोजते देखें  | साहब  डॉक्टर हो तब तो उन्हें मिले   थक हार कर मरीज प्राइवेट अस्पतालों में महंगे खर्च पर इलाज कराने को मजबूर है  |  आप खुद ही सुनिए मरीज और उनके परिजनों की मुंह जुबानी | अब जरा पहले से अस्पताल में भर्ती इन मरीजों की हाल भी देख लीजिए   |  जो पिछले 1 सप्ताह से अस्पतालों में नर्स और वार्ड बॉय के भरोसे ही इलाज कराने को मजबूर है  |  मरीज बताते हैं कि भर्ती होने के बावजूद भी कई दिन हो गए डॉक्टर देखने नहीं आए   |  सिर्फ नर्स आती हैं   |  और दवा देकर चली जाती हैं   |  उनसे पूछो तो वह कहती हैं कि डॉक्टर साहब अस्पताल में ही नहीं है तो आएंगे कहां से  कुछ मरीज तो ऐसे हैं जो एचआईवी से पीड़ित हैं जिन्हें सघन जांच की जरूरत है  लेकिन उन्हें भी डॉक्टर नसीब नहीं है  | अगर मज़बूरी में इलाज करना हैं तो नर्स और वार्ड बॉय के भारी अस्पताल में भर्ती हो  |अस्पताल के कई बारदों की हालत तो नर्क से भी बदतर है  |  फटे बदबूदार बिस्तर और संक्रमण के बीच मरीज अपना इलाज कराने को मजबूर है  |  और तो और अस्पताल के कई एक्यूपमेंट  निर्जीव पड़े हुए हैं  | जिन्हें लाखों खर्च करके अस्पताल में लाया गया  |  जैसे ब्लड बैंक में कई महीनों से सीबीसी मशीन खराब पड़ी हुई है  | और लैब टेक्नीशियन मरीजों को बाहर से टेस्ट कराने की सलाह देते नजर आते हैं  |  ऐसा नहीं है कि उन्होंने शिकायत नहीं की लगातार शिकायतों के बाद भी सुनने वाला कोई नहीं  | जिला अस्पताल को 2 वर्ष पहले ट्रामा सेंटर की सौगात मिली  | और जिले में एक करोड़ सत्तर लाख कि चलित एंबुलेंस सुविधा मिली जो आपरेशन से लेकर वेंटिलेटर सहित तमाम अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस है  | लेकिन डॉक्टर की कमी के चलते वह भी कबाड़ में बदल रही है  खुद जिले के मुख्य चिकत्साधिकारी बताती है कि जिला अस्पताल में 31मेडिकल ऑफिसर के पद है  | जिसमें से केवल चार डाक्टर ही वर्तमान में पदस्थ है। जिला अस्पताल में एक भी फिजिशियन ड्रमोटोलाजिस्ट, कड़ियोलाजिस्ट  नहीं हैं  | इससे भी बड़ी बात यह हैं की लगभग 500 डिलेवरी होने के बाद भी गायनिक डाक्टर नहीं है  | और मजबूरन फिजिएमो द्वारा डिलेवरी कराई जाती है  |   यहां तक की इतने बड़े हॉस्पिटल में केवल एक ही सर्जन मौजूद है और उन्ही में से डे और नाईट सिफ्ट में ड्यूटी रहती है | 

Dakhal News

Dakhal News 1 September 2019


maharashtra dhamaka

  घायलों का महाराष्ट्र के धुलिया और शिरपुर स्थित अस्पताल में उपचार जारी       सेंधवा से 50 किलोमीटर दूर महाराष्ट्र राज्य के शिरपुर की |   केमिकल फैक्ट्री में  ब्लास्ट हो गया  बताया जा रहा है कि हादसा सुबह उस वक्त हुआ जब गैस सिलेंडर में धमाका हो गया |  देखते ही देखते आग ने विकराल रुप ले लिया और इसकी चपेट में कर्मचारी आ गए |    हादसा हुआ उस वक्त फैक्ट्री में 70 से ज्यादा लोग मौजूद थे |  घटना की जानकारी लगने के बाद मौके पर स्थानीय प्रशासन के साथ ही फायर ब्रिगेड की टीम और बचाव दल पहुंच गया है। फंसे लोगों का रेस्क्यू जारी है | जानकारी के मुताबिक अब तक 6 लोगों की मौत हुई है | और 43 घायल हुए हैं |   घायलों का महाराष्ट्र के धुलिया और शिरपुर स्थित अस्पताल में उपचार जारी है | बचाव कार्य अभी जारी है | फैक्ट्री में  लोग फंसे हुए भी बताए जा रहे हैं |

Dakhal News

Dakhal News 31 August 2019


बैंक विलय

  PNB, OBC और यूनाइटेड बैंक के विलय की घोषणा    देश में मंदी की खबरों के बीच उद्योग जगत को मजबूती देने के लिए की गई घोषणाओं के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने  पंजाब नेशनल बैंक, यूनाइटेड बैंक और ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स के विलय की घोषणा की | वित्त मंत्री ने कहा कि इस विलय के बाद यह देश का दूसरा सबसे बड़ा बैंक होगा | वहीं कैनरा बैंक का सिंडिकेट बैंक में विलय होगा और यह देश का चौथा बड़ा बैंक बन जाएगा |   वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि  इसके अलावा यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में आंध्रा बैंक और कॉर्पोर्शन बैंक का विलय होगा और यह देश का पाचवां बड़ा बैंक बनेगा | वहीं इंडियन बैंक का इलाहाबाद बैंक में विलय होगा और यह देश का  छठवां सबसे बड़ा पब्लिक सेक्टर बैंक होगा | उन्होंने इस दौरान सरकार के उठाए कदमों से बैंकों को हुए फायदे की जानकारी दी | वित्त मंत्री ने अपने प्रजेंटेशन में कहा कि पिछले हफ्ते लिए गए फैसलों का  असर दिखने लगा है और तीन बैंक हैं जिन्होंने अपने एनबीएफसी का समाधान निकला है |        वित्तमंत्री ने कहा  इससे जीडीपी को आगे बढ़ने में मदद मिलेगी |  हमने बैंकों और बैंकिंग सेक्टर में सुधार किया है | बैंकों को सिर्फ लिक्विडिटी नहीं देनी है बल्कि उनमें और सुधार भी करने हैं | उन्होंने यह भी कहा कि फर्जी कंपनियों को बंद किया गया है जिनकी संख्या 3 लाख है | हम 5 ट्रिलियन इकोनॉमी की तरफ बढ़ रहे हैं |  भगोड़ों और उनकी संपत्तियों के खिलाफ काम जारी रहेगा |   सरकार ने कम वक्त में ज्यादा लोन की स्कीम प्रस्तुत की थी |  सरकार द्वारा अब तक उठाए गए कदमों का असर है कि बैंक एनपीए में कमी आई है |      

Dakhal News

Dakhal News 31 August 2019


electricity bill

    बैंड के साथ घर पहुंच जाएगी बिजली कंपनी       मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने अपने करोड़ों के बकाए बिजली बिल वसूली के लिए नायाब तरीका अपनाया है  | अब बिजली कंपनी के कर्मचारी अंतिम चेतावनी देने के इरादे से बड़े बकाएदारों के घर बैंड-बाजा लेकर पहुंच रहे हैं |गुरुवार को हरदा में कई  जगह ऐसा नजारा देखने को मिला |        हरदा में बिजली कंपनी के कर्मचारी ढोल-नगाड़ों के साथ बाजार में निकले  उनके हाथ में एक बैनर भी था  | जिस पर लिखा था कि अगर आपने अपना बकाया बिजली बिल नहीं भरा तो आपका नाम सार्वजनिक कर दिया जाएगा |इतना ही नहीं गाजे-बाजे के साथ वसूली दल आपके घर आ धमकेगा  ...  ऐसे में बकाएदारों से ये अपील की जाती है कि वो जोन कार्यालय में जाकर अपना बकाया बिजली बिल भर दें   |हरदा में  500 से ज्यादा बकाएदारों के ऊपर बिजली कंपनी का दो करोड़ से ज्यादा का बकाया है  |  ऐसे में बिजली कंपनी ने वसूली के लिए ये नायाब तरीका अपनाया है  | ताकि लोग शर्म के मारे ही सही अपना बकाया बिजली बिल जमा कर दें |    

Dakhal News

Dakhal News 29 August 2019


बच्चे बर्तन

  स्कूल व्यवस्था  है प्रभु भरोसे, प्राचार्य है नदारद      सरकारी स्कूलों में  शिक्षक और कर्मचारी  शिक्षा देने के बजाय बच्चों से बर्तन साफ़ कराते है |   बच्चों से गंदे पानी में बर्तन साफ़ कराया जा रहा  जब स्कूल के प्राचार्य से इस बारे में बात करनी चाही    तो वो हमेशा की तरह इस बार भी स्कूल से नदारद मिले  |  ऐसे में बच्चों का भविष्य अधर में नजर आ रहा है  | मंत्री प्रभुराम चौधरी जी कुछ कीजिये और इन बच्चों की ठीक से पढाई के इंतजाम करवाइये |     सागर के  उपनगर मकरोनियां में  नन्हे मुन्ने बच्चों से  यहां पदस्थ शिक्षक और समूह के कर्मचारी  बर्तन साफ़ करवाते  है  |  वह भी उस स्थान पर जहां से गंदे पानी की निकासी हो रही है |   इस मामले में जब  प्राचार्य से बात करने का प्रयास किया गया तो |  वह हमेशा की तरह स्कूल से गायब थे  इन नौनिहालों से जिस तरह काम कराया जा रहा है उससे  केवल प्रदेश सरकार की मंशा पर कुठाराघात नहीं है |  बल्कि मानवीय संवेदना पर भी कुठाराघात हो रहा है  |   इस मामले में बीआरसी सागर से बात की गई तो उनका कहना है कि   मामला संज्ञान में आया है जांच कर  कार्रवाई की जाएगी |   मामले में  विजुअल सामने आने के बाद लोगों की तल्ख टिप्पणियां सामने आई है  | जांच कराए जाने की औपचारिकता के चलते ना केवल सरकारी नुमाइंदों को बचाने की कवायद होगी  | बल्कि उन समूहों को भी बचाने का प्रयास होगा  जिनकी मलाई पर विभाग के लोग ऐश करते रहते हैं  |  शायद यही वजह है कि इन नौनिहालों को भोजन करने के पहले   | और भोजन करने के उपरांत इस तरह बर्तन धोने के  लिए मजबूर किया जाता है |    

Dakhal News

Dakhal News 28 August 2019


weather

  सड़क के साथ दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग बाधित मध्यप्रदेश के अधिकांश हिस्से में बारिश    मध्यप्रदेश के मालवा-निमाड़ क्षेत्र में भारी बारिश का दौर जारी है | रतलाम में रात से हो रही तेज बारिश से पटरियों पर पानी भर गया  जिससे दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग बाधित हो गया | शहर के निचले इलाकों में भी पानी भर गया है  |    रतलाम के आसपास भारी बारिश के कारण रेल ट्रैक पर पानी आने से मुंबई साइड से आने वाली गाड़ी कुछ विलंब से आई हैं |  कुछ जगह रेल ट्रेक पर पानी आने के कारण सभी गाड़ियां विलम्ब से चलीं  | मालवा और निमाड़ में रुक रुक कर बारिश जारी है  उधर भारी बारिश की वजह से मंदसौर में शिवना नदी का जल स्तर बढ़ गया है और यह पशुपतिनाथ मंदिर के गर्भगृह में प्रवेश कर गई है |गर्भगृह में मूर्ति के नीचे के चार मुंखों से ऊपर पानी पहुंच गया है|  ऐसे में गांधीसागर डेम के 2 छोटे गेट और खोले जाएंगे, इससे एक लाख क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा |  मंदसौर में शिवना नदी पर बने कालाभाटा डेम के पांच गेट 8 फीट तक खोले गए हैं |  गांधीसागर बांध का जलस्तर 1310 फीट पर पहुंचने के साथ ही पानी की आवक को देखते हुए  तीन छोटे स्लूज गेट खोले गए  | कलेक्टर मनोज पुष्प ने बताया कि गेट खोलने से पहले प्रभावित होने वाले क्षेत्रों सहित राणाप्रताप सागर रावतभाटा, कोटा बैराज को भी अलर्ट जारी किया गया है  | खरगोन और इंदौर में भी रात से ही लगातार बारिश हो रही है |  मौसम विभाग ने नीमच, मंदसौर, रतलाम, आगर, शाजापुर, उज्जैन, देवास, इंदौर, धार, अलीराजपुर, झाबुआ, बड़वानी, खरगौन, बुरहानपुर, खंडवा, रायसेन, राजगढ़, होशंगाबाद, हरदा, सिवनी, बालाघाट, मंडला, नरसिंहपुर, सागर, गुना, अशोकनगर, शिवपुरी, श्योपुरकलां में आगामी 24 घंटे में भारी बारिश होने का अलर्ट जारी किया गया है | वहीं, भोपाल, इंदौर, उज्जैन, जबलपुर, होशंगाबाद, ग्वालियर, छिंदवाड़ा सहित पूरे प्रदेश में गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है |   

Dakhal News

Dakhal News 27 August 2019


anjali patel

  अंजलि दिव्यांग लोगों के बीच बनी मिसाल    हौसले अगर बुलंद हो तो मंजिल मिल ही जाती है  | पैरों से दिव्यांग होने के बाद भी एक बेटी  ने  रिले रेस तैराकी में एशियन रिकॉर्ड बनाया  समुद्र की लहरों को पार कर  शार्क और डॉल्फिन के बीच से गुजरकर इस लड़की ने यह मुकाम हासिल किया   | अब यह देश की बेटी दिव्यांगों के लिए मिसाल बन गई है  |      छत्तीसगढ़ के  जांजगीर की रहने वाली  अंजली पटेल ने रिले रेस तैराकी में एशियन रिकॉर्ड बना कर प्रदेश का नाम रौशन कर दिया   |पैरों से दिव्यांग होने के बाद भी छत्तीसगढ़ की इस  बेटी ने कमाल कर दिया | अंजलि  समुद्र में शार्क के बीच से गुजरी और तैराकी में रिकॉर्ड बनाया  कहा जाता है कुछ करने का जूनून हो तो कुछ भी किया जा सकता है   | रिले रेस तैराकी में एशियन रिकॉर्ड बनाने के बाद अंजलि  लाखों दिव्यागों के लिए मिसाल बन गई है |     अंजली ने समुद्र की लहरों को भेदकर शार्क और डॉल्फिन के बीच से गुजरकर यह मुकाम हासिल किया |देश भर के छह पैरा तैराकों की इस टीम ने 35 किलोमीटर की दूरी 11 घंटे 46 मिनट 56 सेकंड में तैर कर पूरी की  अंजली ने इसमें शामिल होने के लिए पांच लाख रुपये  उधार लिए थे  |   

Dakhal News

Dakhal News 27 August 2019


rishvat

    एसडीओपी एस एन पाठक ने  रिश्वत ली     मुख्यमंत्री कमलनाथ जी आपके राज में आपके विधायक और मंत्री ही आपकी सरकार से संतुष्ट नहीं हैं  |  उनका कहना है हर जगह लूट खसोट जारी है  और यह सच भी है | आपके राज में पुलिस वाले कैसे रिश्वत खोरी करते हैं उसका एक वीडिओ आप आँख खोल कर देख लीजिये  |  आपको भी समझ में आना चाहिए की  आपके अच्छे कामों पर यह रिश्वतखोर कैसे पलीता लगा रहे हैं  |     मध्यप्रदेश में लूट मची हुई है   | जगह  जगह भ्रष्ट लोगों का बोलबाला है  |  मुख्यमंत्री कमलनाथ जी यह हम नहीं कह रहे  | ये कहना है पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक के पी सिंह का    कांग्रेस ने वक्त है बदलाव का नारा जरूर दिया लेकिन आपकी सरकार मध्यप्रदेश में कुछ भी बदलाव नहीं कर पायी   आपकी सरकार के  सीनियर मंत्री गोविन्द सिंह खून के आंसू रो रहे हैं  | उनका कहना है अवैध उत्खनन रोकने के मामले में   | मैं अपनी ही सरकार में हार गया हूँ  कमलनाथ जी ये तो वो दमदार लोग हैं जो डंके की चोट सच बोल रहे हैं  |ऐसे कई विधायक और मंत्री हैं जो आपकी सरकार में घुटन महसूस कर रहे हैं   अब आप आँख खोल कर इस दृश्य को देख लें   ये हैं आपकी पुलिस के लोग   | इन्हें रिश्वत के माल का बंटवारा करना है सो दरवाजा बंद करवाया जा रहा है  ये जो वर्दीधारी है  इसका नाम एस ऍन पाठक है   | ये जबलपुर के पाटन का एसडीओपी है  | इन साहब का ये वीडिओ सामने आया तो पुलिस महकमे को करंट लग गया कि जो कमरों के भीतर होता है वो बाहर कैसे आ गया   | पाठक रिश्वत के रुपयों की पूरी लिखा पढ़ी डायरी में करते हैं वो भी पूरी ईमानदारी से  अब इनकी भी बात सुन लें  |      मुख्यमंत्री जी पुलिस में घूसखोरी की परम्परा का पालना करने वाले इस अधिकारी एसएस पाठक के साथ ये उन्हें पैसे देने वाला दूसरा घूसखोर   आरक्षक देवेंद्र जाट है   | पुलिस में ऐसा होना कोई नई बात नहीं है  |  लेकिन मध्यप्रदेश और आपके साथी तो वक्त के बदलने का इन्तजार कर रहे हैं जो बदलता दिख नहीं रहा   इस मामले में जबलपुर के एसपी ने छोटी मछली आरक्षक तो सिर्फ निलंबित किया और एसडीओपी पाठक को छोड़ दिया मुख्यमंत्री जी  यह सारा पैसे का काला खेल अवैध उत्खनन का ही है  | मुख्यमंत्री कमलनाथ जी आप जिस शुचिता की बात करते हैं तो ऐसा कुछ कीजिये कि इन जैसे लोगों को रिश्वत लेने से पहले सौ बार सोचना पड़े  ऐसे लोगों पर ऐसी सख्त कार्यवाही कीजिये कि ये लोग आप पर और आपकी कांग्रेस सरकार पर बदनुमा दाग न बन पाएं  |   

Dakhal News

Dakhal News 26 August 2019


stone pelting

  पत्थरबाजों ने ली ड्राइवर की जान    धारा 370 हटाए जाने के बाद जम्मू कश्मीर के अनंतनाग में कुछ लोगों ने पत्थरबाजी की जिसकी वजह से एक ट्रक ड्रायवर की मौत हो गई है   |...  मृतक ड्रायवर की पहचान नूर मोहम्मद के तौर पर हुई है  |    अनंतनाग में जब नूर मोहम्मद घर लौट रहा था तो प्रदर्शनकारियों ने उसके ट्रक पर  पत्थरबाजी शुरू कर दी   पत्थरबाजी के दौरान एक पत्थर नूर के सिर पर आकर लग गया | उसे इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया, लेकिन डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया बिजबेहरा इलाके में  अचानक कुछ उपद्रवियों ने नूर के  ट्रक पर पत्थर फेंके  | पुलिस के मुताबिक इन पत्थरबाजों ने पिछले दिनों स्थानीय लोगों पर भी पत्थर फेंके  थे  |  इसके चलते एक 11 साल की लड़की श्रीनगर के डाउन टाउन में घायल हो गई थी  | पत्थरबाजी करने वाले स्थानीय लोगों की पुलिस ने पहचान कर ली है   इसके साथ ही कुछ लोगों को इस मामले में पुलिस ने गिरफ्तार भी कर लिया है   |जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने और उसे अलग केंद्र शासित राज्य बनाए जाने के विरोध में घाटी का ही एक वर्ग वहां के हालात को लगातार बिगाड़ने की कोशिश कर रहा है  | यही वजह है कि अभी तक यहां बड़ी संख्या में सैन्य बल तैनात किया गया है   | हालांकि जम्मू कश्मीर के ज्यादातर इलाकों में अब तक हालात सामान्य हैं  |   

Dakhal News

Dakhal News 26 August 2019


BWF World sindhu

  ओकुहारा को रौंदकर रचा इतिहास   भारतीय शटलर पीवी सिंधु ने रविवार को इतिहास रच दिया जब उन्होंने BWF वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप का खिताब हासिल किया   पांचवें क्रम की सिंधु ने धमाकेदार खेल का प्रदर्शन कर तीसरे क्रम की जापान की नोजोमी ओकुहारा को सीधे गेमों में 21-7    |21-7 से हराया  वे यह खिताब हासिल करने वाली भारत की पहली खिलाड़ी बन गई | यह मुकाबला 37 मिनट चला   सिंधु लगातार तीसरी बार इस चैंपियनशिप का फाइनल खेल रही थी और उन्होंने ओकुहारा को हराकर उनसे 2017 के फाइनल में मिली हार का बदला चुकाया   |   पांचवें क्रम की सिंधु और तीसरे क्रम की ओकुहारा के बीच हमेशा कड़ी टक्कर होती थी लेकिन इस फाइनल में सिंधु ने आक्रामक शुरुआत कर पहले गेम में 7-1 की बढ़त बनाई  ...  वे ब्रेक के समय 11-2 से आगे थीं   |  उनके आक्रामक खेल का जापानी खिलाड़ी के पास जवाब नहीं था   |  सिंधु ने इसके बाद देखते ही देखते 17-4 की बढ़त बना ली  |  ओकुहारा ने वापसी का प्रयास किया लेकिन सिंधु ने यह गेम मात्र 16 मिनटों में 21-7 से जीतकर मैच में 1-0 की बढ़त बनाई  सिंधु ने दूसरे गेम में भी लय को बनाए रखा और वे ब्रेक के वक्त 11-4 से आगे थी    उन्होंने यह गेम 21  से जीता  |     

Patrakar Shafali Gupta

Shafali Gupta 25 August 2019


Weather MP

  एक साथ तीन मानसूनी सिस्टम हुए सक्रिय   तीन मानसूनी सिस्टम के सक्रिय होने के साथ ही बंगाल की खाड़ी और अरब सागर से आ रही हवाओं का मध्यप्रदेश के ऊपर टकराव  हो रहा है | इस वजह से शुक्रवार रात से पूरे प्रदेश में झमाझम बारिश हो रही है |मौसम विज्ञानियों ने भोपाल, उज्जैन, इंदौर, होशंगाबाद संभाग और हरदा जिले में भारी बारिश की चेतावनी दी है  |  इसके अलावा ग्वालियर, जबलपुर, नरसिंहपुर, सतना, रीवा, सिंगरौली में तेज बौछारें पड़ने की संभावना जताई है |.  इस दौरान नदी नाले लबालब हो गए हैं और जगह जगह बांधों के गेट खोलना पड़ गए हैं |.    अगले छतीस घंटों तक मध्यप्रदेश का मौसम ऐसा ही बना रहेगा | कुछ इलाकों में तेज तो कहीं मध्यम बारिश हो रही है भोपाल में भदभदा और कलियासोत डेम के गेट कगोल्ने और बंद होने का सिलसिला चल रहा है | वहीँ इटारसी में तवा डेम के  सभी 13 गेट खोले गए  प्रत्येक गेट  को 14- 14 फीट खोलकर 2 लाख छियानबे  हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है  | 3 साल बाद तवा डेम के सभी गेट खोले गए हैं  |तवा के गेट खुलने से नर्मदा का जल स्तर बढ़ना शुरू हो गया है |इस समय प्रदेश के तक़रीबन अधिकांश तालाब और बांध लबालब हो गए हैं वरिष्ठ मौसम विज्ञानी उदय सरवटे ने बताया कि वर्तमान में ओडिशा कोस्ट पर एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है |इस सिस्टम में पिछले दिनों विदर्भ पर सक्रिय ऊपरी हवा का चक्रवात भी शामिल हो गया है |.मानसून ट्रफ रीवा से होकर बंगाल की खाड़ी तक जा रहा है |  इसके अतिरिक्त गुजरात के दक्षिणी भाग पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है | इस सिस्टम के कारण अरब सागर से बड़े पैमाने पर नमी के आने का सिलसिला जारी है  ओडिशा कोस्ट पर बने सिस्टम और गुजरात पर बने चक्रवात के कारण बंगाल की खाड़ी और अरब सागर से आ रही हवाओं का मप्र के ऊपर टकराव हो रहा है |  शुक्रवार रात के बाद से बनी इस स्थिति के कारण ही पूरे प्रदेश में तेज बौछारें पड़ने का सिलसिला शुरू हो गया | इस तरह की स्थिति अभी 2-3 दिन तक बनी रह सकती है इस दौरान कहीं-कहीं भारी बारिश होने की भी आशंका है |  

Patrakar amitabh upadhyay

amitabh upadhyay 25 August 2019


inami naxali

    आठ लाख के इनामी नक्सली बुदरा ने किया सरेंडर  नक्सलियों का खतरनाक डिप्टी कमांडर है बुदरा    नक्सलवादियों के खतरनाक डिप्टी कमांडर  बुदरा उर्फ नरेश ने दंतेवाड़ा में आत्मसमर्पण कर दिया है  ... तमाम वारदातों में शामिल बुदरा पर आठ लाख रुपये का इनाम था  ...    दंतेवाड़ा में आठ लाख के इनामी मिलिट्री प्लाटून नंबर 24 के डिप्टी कमांडर बुदरा उर्फ नरेश ने किया आत्म समर्पण कर दिया  ...  बुदरा कई  बड़ी घटनाओं में शामिल  रहा है   ...बुदरा ने  2010 में कांग्रेस नेता अवधेश गौतम के घर में हमला किया  जिसमें दो लोग मारे गए थे   ...  2012 में किरंदुल के सीआईएसएफ बोलेरो वाहन को ब्लास्ट कर बुदरा ने उड़ा दिया था जिसमे ड्राइवर समेत 7 जवान शहदी हो गए थे और इसमें 6 एके-47 हथियार लूट लिए गए थे  ...  ऐसी ही कई वारदातों में बुदरा शामिल था  ... बुदरा के समर्पण को  पुलिस सइसे बड़ी सफलता मान रही है, सरेंडर नक्सली से नक्सलियों के बारे में कई जानकारियां निकाली जा रही हैं  ... 

Dakhal News

Dakhal News 25 August 2019


police rescue

  पुलिस ने अँधेरे में रेस्क्यू कर बचाई जान     जगदलपुर के  तीरथगढ़ जल प्रपात में अचानक जल स्तर बढ़ने से सात पर्यटक फंस गए  | सभी पर्यटक बारिश में उफनते जल प्रपात का सौंदर्य देखने रायपुर से बस्तर आए थे | इस दौरान इसे करीब से देखने के लिए प्रपात के नीचे उतर गए और तभी वहां  पानी का बहाव तेज हो गया |   इस दौरान वे अंदर ही फंसे रहे गए |  पर्यटकों के फंसने की खबर जैसे ही पुलिस तक पहुंची, दरभा पुलिस तुरंत हरकत में आई और वहां पहुंचकर पयर्टकों को अँधेरे में रेस्क्यू कर निकाला  |    बीती शाम 6 बजे के करीब कुछ पर्यटक रायपुर से जलप्रपात देखने पहुंचे थे  |अचानक तेज बारिश शुरू होने से पर्यटक यहां टापू में बने मंदिर में फंस गए  | फारेस्ट विभाग के कर्मचारियों ने इस बात की सूचना दरभा पुलिस को दी जिसके बाद पुलिस एसडीओपी डॉ यूलेण्डन यार्क के नेतृत्व में तीरथगढ़ पहुंच गई |  तेज बहाव के बीच पुलिस के जवान एक रस्सी लेकर तेज धारा के बीच पहुंच गए |  पुलिस का पूरा स्टाफ जैसे ही एक दूसरे का हाथ पकड़कर खड़ा हुआ, फंसे हुए पर्यटक उछल कर ताली बजाने लगे |  आखिरकार रात को नौ बजे के बाद पुलिस ने सभी 7 पर्यटकों को रेस्क्यू कर लिया |  एसडीओपी यार्क के नेतृत्व में इस रेस्क्यू ऑपरेशन को विष्णु यादव ने लीड किया   इस ऑपरेशन में  पुलिस जवान   रविकुमार बैगा, सहायक आरक्षक प्यारेलाल पिस्दा, प्रधान आरक्षक घनश्याम मेश्राम, आरक्षक अजय साहू, आरक्षक पुष्पराज ठाकुर और अजित किस्पोट्टा शामिल थे |   

Dakhal News

Dakhal News 23 August 2019


Terror Funding Case

  टेरर फंडिंग केस में पांच को किया गिरफ्तार   पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए काम करने वाले सतना के सोहास गांव निवासी बलराम सिंह को सतना पुलिस ने एक बार फिर गिरफ्तार किया है  |  बलराम सिंह जमानत पर रिहा हुआ था |  पुलिस ने बलराम के साथ 4 अन्य लोगों  को भी गिरफ्तार किया है |पकड़े गए भागवेंद्र सिंह, सुनील सिंह, शुभम तिवारी से टैरर फंडिंग को लेकर पूछताछ की जा रही है | पुलिस को इन लोगों के बारे में जानकारी लगी थी कि ये लोग पकिस्तान की ख़ुफ़िया एजेंसी  isi के लिए काम करते हैं  | उसके बाद दविश देकर इन्हें पकड़ा गया |   गिरफ्तार लोगों  के कब्जे से स्मार्ट मोबाइल फोन और लैपटॉप बरामद किया गया है |  जिसमे 17 पाकिस्तानी नंबर मिले है, जिनके माध्यम से ये लोग आतंकियों के फंड मैनेजर से वीडियो कॉलिंग, मैसेंजर काल और व्हाट्सएप चैटिंग किया करते थे | सतना पुलिस ने मामले की जानकारी उच्च अधिकारियों को दे दी है | बताया जा रहा है कि बलराम सिंह को पहले 2016 में एक मामले में जेल भेजा गया था, वह जमानत पर बाहर आया था और यह काम करने लगा |  उनके पास से मोबाइल सहित कई सामान भी बरामद  किये गए हैं  | आशंका जताई जा रही है कि वो इन्हीं मोबाइल से पाकिस्तान में बैठे अपने आकाओं से बात करता था |  फिर बैंक खातों में पैसा जमा कराकर उसे आतंकियों तक पहुँचाया जाता था  |      

Dakhal News

Dakhal News 22 August 2019


russian ladkiya

  3 विदेशी युवतियों सहित 6 गिरफ्तार   भोपाल के  कोहेफिजा में क्राइम ब्रांच ने दबिश देकर |  देह व्यापार में लिप्त तीन विदेशी युवतियों सहित एक दलाल और दो ग्राहक  को गिरफ्तार किया है मुखबिर की सूचना पर क्राइम ब्रांच की टीम ने बीडीए कॉलोनी में दबिश दी   |  पकड़ी गई लड़कियों में एक नेपाल और दो उजबेकिस्तान की हैं  |  ये तीनों लड़कियां टूरिस्ट वीजा पर भारत आईं हुई थी  |    विदेशी लड़कियों के टूरिस्ट वीजा पर भारत आकर देह व्यापार के धंधे में लिप्त होने की घटनएं बढ़ती जा है  |  ऐसी ही एक मामला भोपाल में सामने  आया है  |  जहां  क्राइम ब्रांच ने देह व्यापार में लिप्त तीन विदेशी  युवतियों को गिरफ्तार किया  है   |   युवतियों के साथ एक दलाल और दो ग्राहकों को भी पकड़ा  गया है   |   मुखबिर की सूचना मिलने पर क्राइम ब्रांच की टीम ने कोहेफिजा इलाके की बीडीए कॉलोनी में दबिश दी  |  जिसके बाद   यहां से एक  मकान से  तीन विदेशी युवतियों समेत छह लोगों को गिरफ्तार किया  |  घर आरोपी जॉन मसीह का बताया जा रहा है  |  जॉन मसीह लंबे समय से अपने घर से देह व्यापार के अड्डे को संचालित कर रहा था... आरोपी सुयोग जैन अशोक नगर का रहने वाला है जबकि ग्राहक कपिल पटेल  इंदौर का निवासी  है  |  पकड़ी गई लड़कियों में से एक नेपाल और दो उजबेकिस्तान की हैं   | ये तीनों लड़कियां टूरिस्ट वीजा पर आईं थी  |    क्राइम ब्रांच ने इस मामले की जानकारी विदेश मंत्रालय को भेज दी है  |  

Dakhal News

Dakhal News 21 August 2019


कैटलीना चैनल

  ग्वालियर के सत्येंद्र सिंह लोहिया ने किया ये कारनामा   ग्वालियर  के दिव्यांग स्विमर सत्येंद्र सिंह लोहिया ने अमेरिका में 42 किलोमीटर की कैटलीना चैनल सिर्फ 11 घंटे चौंतीस मिनिट में तैरकर पारकर इतिहास रच दिया है | सत्येंद्र  इतने कम समय में इस चैनल को पार करने वाले एशिया में वे पहले दिव्यांग तैराक बन गए है | कैटलीना चैनल में पानी का तापमान करीब 12 डिग्री के करीब होता है |   ऐसे में लगातार तैरकर इसे पार करना बड़ा ही मुश्किल माना जाता है |  लेकिन सत्येंद्र ने यह चैलेंज स्वीकार किया और इसे पार कर देश और मध्यप्रदेश का नाम भी रोशन कर दिया |   इसके साथ ही पानी में शार्क मछलियों के हमले का खतरा भी बना रहता है |  सत्येंद्र के साथ देश के 5 लोग और शामिल रहे |   

Patrakar Anurag Upadhyay

Anurag Upadhyay 20 August 2019


accident

  बड़े लोगों की बसों के लिए न नियम न कानून  प्रशासन की अनदेखी के चलते इंदौर रोड पर बसें बेखौफ होकर ओवर स्पीड से चलाई जा रही  हैं ...ऐसी ही एक अंधी रफ़्तार बस का एक्सीडेंट हुआ और वह ब्रिज से नीचे लटक गई  | ऐसे में यात्रियों की जान पर बन आई   |  यात्री  जब   | बस चालक  से धीरे चलाने को कहते है तो चालक अभद्रता पर उतर आते है  रसूखदारों की यह बसें कभी भी बड़े हादसे का कारण बन सकती हैं    |   इंदौर रोड पर उस समय  बड़ा हादसा टल गया जब एक नेता की अंधी रफ़्तार बस  ब्रिज की रेलिंग से टकरा कर ब्रिज पर लटक गई    | इस हादसे के  बाद एक बार फिर यात्रियों की सुरक्षा को लेकर  कई सवाल खड़े हो गए हैं  |  उज्जैन-इंदौर रूट पर बस ऑपरेटर क्षमता से दोगुना यात्रियों को बैठाकर     बेकाबू गति से बसें चला रहे    |  इसके बावजूद प्रशासन द्वारा कोई ठोस कार्रवाई नहीं की जा रही है  | दुर्घटना का शिकार हुई बस के यात्रियों ने बताया कि ड्राइवर ने इंदौर से निकलने के बाद दो बार अंधगति से वाहनों को ओवरटेक करने की कोशिश की थी और बस असंतुलित  हो गई   | गनीमत रही कि बस पुल पर लटक गई   |वरना यात्रियों  की जान भी जा सकती है    |  कुछ यात्रियों ने उसे टोका भी   | मगर जवाब मिला कि यहां तो बस ऐसे ही चलती है   | दुर्घटना के बाद सहमे यात्रियों में रोष भी था   |  पुलिस को जांच में यह भी पता चला है कि 34 सीटर बस में 60 यात्री बैठे थे   |  मुनाफे के चक्कर में बस संचालक यात्रियों  की जान के साथ खिलवाड़ करते है  | पूर्व में भी इंदौर रोड पर बेकाबू बसों के कारण कई दुर्घटनाएं हो चुकी हैं   |  इसके बावजूद जिम्मेदार विभाग कोई कार्रवाई नहीं करता    | बताया जा रहा  बीएस संचालक कांग्रेस के प्रदेश सचिव है    |  हालाँकि  पुलिस ने ड्राइवर के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है    |  

Dakhal News

Dakhal News 19 August 2019


आतंकी गिरफ्तार

  आतंकवादी  ठेकेदार के पास मजदूर बन छिपा हुआ था  एनआईए के अफसरों ने ठेला लगाकर रेकी की    जमात-उल-मुजाहिद का आतंकी जहीरुल शेख उर्फ जाकिर दो वर्षों से ठिकाने बदलकर रह रहा था |  जांच एजेंसियों से बचने के लिए वह मोबाइल का बहुत कम उपयोग करता था | एनआईए की टीम पांच दिन पूर्व उसका पीछा करते हुए इंदौर पहुंची और सब्जी बेचने के बहाने ठेला लगाकर संकरी गलियों में रेकी की     जैसे ही जाकिर के आने-जाने और ठहरने की पुख्ता जानकारी हाथ लगी, उसे दबोच लिया |     धमाकों की जांच कर रहे एनआईए  के इन्स्पेक्टर दिवाकर मिश्रा आतंकी जहीरुल शेख की चार साल से तलाश कर रहे थे  ...  दो वर्ष पूर्व जानकारी मिली कि वह इंदौर में छिपा है  |   करीब दो महीने पूर्व उसके एक रिश्तेदार के मोबाइल में उसका भी नंबर मिला, लेकिन वह बार-बार लोकेशन बदल लेता था  ...  कभी खंडवा रोड, नेमावर रोड और कभी आजाद नगर क्षेत्र में लोकेशन मिल रही थी।  पांच दिन पूर्व मिश्रा की टीम इंदौर पहुंची और मीना पैलेस व कोहिनूर कॉलोनी में सब्जी का ठेला लगाकर शेख के रेकी करना शुरू की  |  सोमवार को पता चला कि वह शाकिर खान के मकान में ठहरा हुआ है...   यह मकान पश्चिम बंगाल निवासी महरुल मंडल ने किराए पर लिया है |  मंडल मकान बनाने के ठेके लेता है  |  शेख उसके पास मजदूर बनकर छिपा  था  |  ईद पर लोगों की आवाजाही देख एजेंसी ने उसे कोहिनूर कॉलोनी में नहीं पकड़ा और उसके पीछे-पीछे खंडवा रोड तक पहुंच गई।   जैसे ही मौका मिला, उसे हिरासत में लेकर आजाद नगर थाने के सुपुर्द कर दिया  |   

Patrakar Anurag Upadhyay

Anurag Upadhyay 14 August 2019


मेघा परमार

  मेघा परमार ने एल्ब्रुस पर लहराया तिरंगा   स्वाधीनता दिवस से पहले मध्यप्रदेश की बेटी  मेघा परमार ने हिमालय के माउंट एवरेस्ट के बाद अब योरप के सबसे ऊंचे पर्वत माउंट एल्ब्रुस की चोटी पर तिरंगा फहराया  | यह कीर्तिमान बनाने वाली वे प्रदेश की पहली महिला हैं |    सीहोर जिले के ग्राम भोजनगर की  मेघा परमार रूस के पर्वत माउंट एल्ब्रुस  पर 8 अगस्त को स्थानीय समयानुसार सुबह 10.14 बजे माइनस 18 डिग्री तापमान में पहुंचीं थी   | मेघा भोजनगर गांव के किसान दामोदर परमार व मंजू परमार की बेटी हैं | मेघा ने इसी साल 22 मई को विश्व के सबसे ऊंचे पर्वत मांउट एवरेस्ट को फतह किया था |मेघा ने अपना एक्सपीडिशन 5 अगस्त को शुरू किया था | 8 अगस्त को रात 1.00 बजे निकलकर सुबह 10.14 पर चोटी पर पहुंचकर समिट किया  | मेघा की टीम लीडर भरत गाइड यूरी व सदस्य अरूण, आशा, महिपाल, सतीश और शेखर थे  |  मेघा को महिला बाल विकास विभाग ने बेटी बचाओ अभियान का ब्रांड एमबेसडर घोषित किया है  |

Patrakar Anurag Upadhyay

Anurag Upadhyay 12 August 2019


expiry dawa

  दवा सप्लायर का फर्जीवाड़ा सामने आया    रायसेन के बरेली सिविल अस्पताल में निःशुल्क दी जाने वाली दवाओं की मैन्युफेक्चरिंग में बड़ी गड़बड़ी सामने आई है  | दवा निर्माता कम्पनी ने एक्सपायरी डेट की दवाओं के रेपर बदलकर लोगों की जान के साथ खिलवाड़ किया है  | लेकिन स्वास्थ्य विभाग इस घोटाले पर पर्दा डालने की कोशिश में लगा हुआ है |    ये नजर बरेली के सरकारी अस्पताल का है | यहां बच्चों को दस्त होने पर दी जाने वाली औराफलौकस- औ डी  दवाओं की शीशी पर लगे रैपर को निकालने पर दूसरा रैपर मिला है |  जिसमें दवाई की मैन्युफेक्चरिंग की तिथि मई 2017 और एक्सपायरी की तिथि अप्रेल 2019 लिखी हुई है | जबकि शीशी के उूपर चिपकाई गई पर्ची में मैन्युफेक्चरिंग की तिथि जन 2019 नजर आ रही है और दिसम्बर 2020 तक की एक्सपायरी बताई गई है | स्पस्ष्ट है कि यह गड़बड़ी सरकारी अस्पताल में स्वास्थ्य विभाग द्वारा भेजी गईं इन दवाओं के साथ बड़े स्तर पर छेड़छाड़ की गई है |  इस गड़बड़ी का सीधा संबंध दवाई बनाने वाली कंपनीऔर दवा खरीदने वाले विभाग के जिम्म्मेदारों से है | बरेली सिविल अस्पताल में मई और जून 2019 माह में 1500 औराफलौकस- औ डी  की शीशियां जिला मुख्यालय से भेजी गई हैं  | जिनमें से लगभग 50 प्रतिशत दवाई मरीजों को वितरित की जा चुकी हैं  |  सीबीएमओ डाॅ. गिरीश वर्मा ने बताया कि बरेली अस्पताल से 50 शीशी दवाई  | इस पूरे मामले का खुलासा एक मरीज ने किया |     चिकित्सकों द्वारा औराफलौकस- औ डी ( दवाई छोटे बच्चों को दस्त होने की स्थिति में दी जाती है  | यह सायरप बच्चों को कुपच और पेट की गड़बड़ी के ईलाज में दिया जाता है  | सिविल अस्पताल के चिकित्सकों ने बताया कि इस दवाई की एक्सपायरी तिथि में होने से  इसकी रोगों से लड़ने की क्षमता कम हो जाती है |  इस मामले का खुलासा होने पर  तहसीलदार बरेली  निकिता तिवारी ने इस मामले की जाँच की | उन्होंने कहा जांच में यह गड़बड़ी सामने आई है|        यह दवाई जेकसन कंपनी द्वारा बनाई गई है | गड़बड़ी में यह सामने आया है कि कंपनी के द्वारा शीशी पर लगाए गए पुराने लेवल को छिपाने के लिए नया रैपर  लगाया है  |जिसमें एक्सपायरी की तिथि 5 माह अधिक लिखी हुई है  |  इससे अंदाजा यह लगाया जा सकता है कि इसमें कंपनी के द्वारा ही दवाई की शीशी से छेड़छाड़ कर पुरानी तारीख को बढ़ाया है  | क्योंकि विभाग के पास तो यह दवाई नए रैपर के साथ पहुुंची है  |  इसलिए गड़बड़ी की जिम्मेदारी सीधे तौर पर दवा निर्माता कंपनी की ही बनती है |  

Patrakar Shafali Gupta

Shafali Gupta 11 August 2019


dampar phansa

  खराब सड़कों के कारण हो रहे हैं हादसे  मध्यप्रदेश में बारिश के चलते सड़कों के बुरे हाल हैं |पिछले कुछ महीने से सड़कों का मेंटेनेंस भी नहीं हुआ है  |खरगोन में  रेत से भरे डंपर के सड़क पर धंसने के चलते ट्रैफिक जाम के हालात बन गए | खरगोन के सनावद रोड पर आरटीओ कार्यालय के सामने रेत से भरा डंपर बीच सड़क पर धंस गया | शहरी क्षेत्र में सीवर और पेयजल पाइप लाइन बिछाने का काम चल रहा है  |ऐसे में बारिश ने सड़कों की हालत खराब कर दी है | खुदाई के बाद सड़कों की ठीक तरह से मरम्मत नहीं होने से बारिश के दौरान वाहन उन स्थानों पर फंस  रहे हैं  | आज भी रेत से भरा डम्पर रोड पर फंस गया  | ड्राइवर ने डम्पर निकालने की कोशिश की लेकिन वो उसमे कामयाब नहीं हो पाया | रोड पर फंसे डंपर को क्रेन की मदद से निकालने का प्रयास किया गया | इस दौरान सड़क पर जाम लग गया  |घंटों की मशक्क्त के बाद जैसे तैसे इस ेनिकाला जा सका |लेकिन इस  के बाद भी प्रशासन सबक लेने को तैयार नहीं है |  

Dakhal News

Dakhal News 11 August 2019


samleshwari express

इंजन में लगी आग,तीन की मौत,दर्जनों घायल   हावड़ा से जगदलपुर आ रही समलेश्वरी एक्सप्रेस  | उसी  ट्रैक पर सामने से आ रही ओएचई वैन से टक्कर होने से दुर्घटनाग्रस्त हो गई | टक्कर लगने से  इंजन में आग लग गई और ट्रेन के  दो कोच पटरी से उतर गए | दुर्घटना में एक दर्जन से अधिक यात्रियों के घायल होने तथा ओएचई वैन के तीन कर्मचारियों की मौत हो गई है | हावड़ा से जगदलपुर आ रही समलेश्वरी एक्सप्रेस  ओडिशा स्थित  सिंहपुर रोड स्टेशन के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई | समलेश्वरी एक्सप्रेस की उसी ट्रैक पर सामने से आ रही ओएचई वैन से टक्कर हो गई | दुर्घटना में समलेश्वरी के इंजन में आग लगने और दो कोच के पटरी से उतरने की खबर  है | दुर्घटना में एक दर्जन से अधिक यात्री घायल हो गए हैं और   ओएचई वैन में सवार  तीन कर्मचारियों की मौत हो गई है | बताया जाता है कि रेल में 148 यात्री सवार थे | इन्‍हें रायगढ़ भेजा गया  | यात्रियों को ले जाने के लिए दो बसों का इंतजाम  कर उन्हे सुरक्षित गंतव्य तक पहुंचाया गया | रेलवे ने इस घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं | रेलवे सूत्रों के अनुसार, केटागडा और सिंहपुर में ड्यूटी पर तैनात दो स्टेशन मास्टरों को निलंबित भी  कर दिया गया है 

Dakhal News

Dakhal News 26 June 2019


modi

प्रधानमंत्री मोदी का कांग्रेस पर निशाना  राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण पर लोकसभा और राज्यसभा में जमकर बहस हुई और पीएम मोदी ने धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देते हुए कहा इमरजेंसी संविधान को कुचलने का पाप था और  ये दाग कभी नहीं मिटेगा | पीएम मोदी ने धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि  कल कांग्रेस नेता गिना रहे थे किसने किया, किसने किया आज 25 जून है बताओ देश में आपातकाल किसने लगाया, जब देश की आत्मा को कुचल दिया गया था....  देश की मीडिया को दबोच दिया गया हिन्दुस्तान को जेलखाना बना दिया गया, सिर्फ इसलिए कि किसी की सत्ता न चली जाए पीएम मोदी ने कहा कि न्यायपालिका का अनादर कैसे होता है वह उसका जीता-जागता उदाहरण है | आज हम 25 जून को लोकतंत्र के प्रति अपना समर्पण फिर एक बार देना होगा संविधान को कुचलने का पाप कोई भूल नहीं सकता, यह दाग कभी मिटने वाला नहीं है| इस दाग को बार-बार याद करना चाहिए ताकि फिर से कोई ऐसा पैदा न हो जो इस रास्ते पर जाए लोकतंत्र के प्रति आस्था का महत्व समझाने के लिए इसे याद करने की जरूरत है किसी को भला-बुरा कहने के लिए नहीं | प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आजादी के पहले मरने का मिजाज था और आजादी के बाद देश के लिए जीने का संकल्प हैपीएम मोदी ने कहा कि हमें राष्ट्रपति की अपेक्षा को पूरा करने के लिए आगे आना चाहिए उन्होंने कहा कि छोटा सोचना मुझे पसंद नहीं है, सवा सौ करोड़ देशवासियों के सपने अगर पूरे करने हैं तो मुझे छोटा सोचने का अधिकार भी नहीं है | मोदी ने कहा कि सदन में कहा गया कि हमारी ऊंचाई को कोई कम नहीं कर सकता  ऐसी गलती हम नहीं करते, हम किसी की लकीर को छोटी करने में अपना समय बर्बाद नहीं करते, हम अपनी लकीर लंबी करने में जीवन खपा देते हैं | आप इतने ऊंची चले गए हैं कि आप जड़ों से उखड़ चुके हैं | आपका और ऊंचा होना मेरे लिए संतोष का विषय हैं क्योंकि आप जमीन खो चुके हैं|  हमारा सपना ऊंचा होना का नहीं जड़ों की गहराई से जुड़ने का है ताकि देश को और मजबूती दी जा सकेआपको अपनी ऊंचाई मुबारक हो |    

Dakhal News

Dakhal News 26 June 2019


chunni lal

महासमुंद के संसद और उनका हल  कुछ नेता पद और प्रतिष्ठा पा कर अपनी असलियत भूल जाते हैं वहीँ हमारे समाज में ऐसे भी नेता हैं जो हमेशा अपनी जड़ों से जुड़े रहते हैं | सांसद चुन्नीलाल साहू संसद से दो दिन का अवकाश होने पर महासमुंद अपने घर पहुंचे और बारिश हुई देखी तो लग गए खेत जोतने | महासमुंद से सांसद चुने गए चुन्नीलाल साहू  ने सदन में शपथ ली और दो दिन की छुट्टी मिलने पर अपने घर महासमुंद पहुंचे | इस समय छत्तीसगढ़ बारिश की आगोश में है | सांसद चुन्नीलाल ने देखा कि ये समय जुताई के लिए उपर्युक्त है | तो वे हल लेकर अपने खेत जोतने लग गए | चुन्नीलाल ने चुपचाप हमेशा की तरह अपने खेतों की जुताई की , चुन्नीलाल की जगह कोई और सांसद होता तो इस मौके पर मीडिया को जरूर बुलाता लेकिन उन्होंने इस काम को हमेशा की तरह चुपचाप किया  उनके परिजनों ने इसके कुछ फोटो ले लिए थे | उसे सांसद चुन्नीलाल ने जरूर शेयर किया है | अब ये फोटो सोशल मीडिया में वाइरल हो रहे हैं |

Dakhal News

Dakhal News 26 June 2019


pakistan

खबर इस्लामाबाद से । भारत और पाकिस्तान के बीच अक्सर सीमा पर विवाद हो जाते हैं, मगर इस बार तो भारत और पाकिस्तान के बीच रमजान माह में होने वाली इफ्तार पार्टी पर ही विवाद हो  गया। दरअसल, इस्लामाबाद में स्थित भारतीय दूतावास में इफ्तार पार्टी का आयोजन हुआ था। इस पार्टी में आने वाले मेहमानों को पाकिस्तान के प्रशासन ने रोक दिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार, पार्टी में आने वाले करीब सैकड़ों मेहमानों को पाकिस्तान की एजेंसियों ने लौटाने का प्रयास किया। इन मेहमानों का रास्ता रोकने का प्रयास तक किया गया था। इन लोगों को धमकियां दी गईं और कथित तौर पर बदसलूकी भी की गई। मेहमानों को फोन कर धमकी दी गई। पाकिस्तान में भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया ने कहा कि पाक अधिकारियों ने न सिर्फ कूटनीतिक प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया, बल्कि असभ्य व्यवहार भी किया। इसके लिए हम अपने मेहमानों से माफी मांगते हैं। पाकिस्तान के इस तरह के व्यवहार के चलते दोनों देशों के संबंधों पर असर होगा। गौरतलब है कि भारत में नई सरकार के शपथ ग्रहण समारोह में भी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को नहीं बुलाया गया था। इसके खार खाए बैठे पाकिस्तान ने भारतीय दूतावास में रखी गई इफ्तार पार्टी में जाने वाले पाकिस्तान के ही कुछ लोगों ने निशाना बनाया।  

Dakhal News

Dakhal News 2 June 2019


rahul gandhi

मजबूत और आक्रामक रहना है हमें राहुल  कांग्रेस की करारी हार के बाद राहुल गांधी ने कहा  हम 52 सांसद ही बीजेपी के लिए काफी हैं , इंच-इंच लड़ेंगे | राहुल गांधी ने वोटरों का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि सभी कांग्रेस सदस्यों को यह याद रखना है कि हम सब संविधान के लिए लड़ रहे हैं और बिना किसी भेदभाव के हर देशवासी के लिए लड़ रहे हैं| राहुल ने कहा कि हमें मजबूत और आक्रामक रहना होगा | राहुल गांधी कांग्रेस संसदीय दल की बैठक को सम्बोधित कर रहे थे |   कांग्रेस संसदीय दल की बैठक में  कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा हमें आक्रामक और मजबूत बने रहना होगा | हम 52 सांसद ही बीजेपी से लड़ने के लिए काफी हैं | संसद के सेंट्रल हॉल में आयोजित कांग्रेस संसदीय दल की बैठक में पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने वोटरों का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि सभी कांग्रेस सदस्यों को यह याद रखना है कि हम सब संविधान के लिए लड़ रहे हैं | लोकसभा चुनाव में बेहद कम सीट जीतने के बावजूद राहुल ने ताकतवर होने का अहसास कराया और कहा कि हम 52 सांसद हैं और मैं गारंटी देता हूं कि ये 52 ही बीजेपी से इंच- इंच लड़ने के लिए काफी हैं | इस बैठक में नेता विपक्ष को लेकर कोई फैसला नहीं हुआ, लेकिन यह जिम्मेदारी सोनिया गांधी पर छोड़ दी गई | यानी लोकसभा में कांग्रेस की तरफ से नेता विपक्ष कौन बनेगा, ये तय करनी की जिम्मेदारी सोनिया गांधी को दी गई है | 

Dakhal News

Dakhal News 1 June 2019


amit shah rajnath singh  sitaraman

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजनाथ सिंह  को रक्षा मंत्रालय और अमित शाह को गृह मंत्रालय  और  निर्मला सीतारमण को वित्त मंत्रालय की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी है | गुरुवार को पीएम मोदी के अलावा मंत्रिमंडल में 57 मंत्रियों द्वारा शपथ ली गई थी | वहीं शुक्रवार को उन्होंने सभी मंत्रियों का कार्य विभाजन कर दिया गया | मंत्रिमंडल में 24 कैबिनेट मंत्री बनाए गए थे, वहीं 9 राज्य मंत्रियों को स्वतंत्र प्रभार दिया गया था | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने परमाणु ऊर्जा, अंतरिक्ष, पॉलिसी इश्यू सहित अन्य विभाग जो किसी मंत्री को नहीं दिए गए अपने पास रखे हैं | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेताओं के कद और समझ के हिसाब से उनको मंत्रालयों का जिम्मा सौंपा है मंत्रिमंडल में सबसे अहम्  रक्षा मंत्रालय  राजनाथ सिंह को  गृह मंत्रालय अमित शाह को वित्त मंत्रालय निर्मला सीतारमण को परिवहन मंत्रालय  नितिन गडकरी को रासायनिक मंत्रालय डीवी सदानंद गौड़ा को  खाद्य एवं आपूर्ति मंत्रालय रामविलास पासवान को कृषि मंत्रालय नरेंद्र सिंह तोमर को न्याय एवं विधि मंत्रालय रविशंकर प्रसाद को  दिया है | विभागों के वितरण में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का राजनैतिक कौशल साफ़ नजर आया है  प्रधानमंत्री ने हरसिमरत कौर बादल को  खाद्य एवं प्रसंस्करण मंत्रालय ,थावर  चंद गेहलोत  को सामाजिक न्याय विभाग  ,एस जयशंकर को विदेश मंत्रालय  , रमेश पोखरियाल 'निशंक'  को मानव संसाधन मंत्रालय , अर्जुन मुंडा  को अनुसूचित जनजाति मंत्रालय  , स्मृति इरानी  को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय , डॉ. हर्षवर्धन  को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ,प्रकाश जावड़ेकर  को ऊर्जा, वन, सूचना प्रसारण मंत्रालय ,पीयूष गोयल को रेलवे मंत्रालय , धर्मेंद्र प्रधान को  पेट्रोलियम मंत्रालय , मुख्तार अब्बास नकवी को अल्पसंख्यक मंत्रालय , प्रल्हाद जोशी को संसदीय कार्य मंत्रालय   , महेंद्र नाथ पांडेय को  कौशल विकास मंत्रालय , अरविंद सावंत  को भारी उद्योग मंत्रालय गिरिराज सिंह को पशु पालन मंत्रालय  , गजेंद्र शेखावत  को जलशक्ति मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है  |

Dakhal News

Dakhal News 1 June 2019


p c sharma

कांग्रेसी ,सपा , बसपा के भी वापस होंगे केस    कांग्रेस ने  सत्ता में आने के लिए पहले तो किसान कर्ज माफ़ी का कार्ड चला| और अब 7000 किसानों के मुक़दमे  वापस लेने की बात कह रही हैं | साथ ही कांग्रेसी और अपने सहयोगी दल सपा , बसपा के  कार्यकर्ताओं पर| दर्ज मुक़दमे वापस लेने का एलान कर दिया हैं |3 जून को होने वाली बैठक में ड्राफ्ट गृह और कानून विभाग रखेगा | प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने बीते पन्द्रह सालो में। किसानो सहित राजनैतिक दलों पर धरना प्रदर्शन के दौरान लगे प्रकरण वापस लेने की कवायद तेज़ कर दी है | 3 जून को होने वाली बैठक में ड्राफ्ट गृह और कानून विभाग रखेगा किसानों के मुकदमे वापस लेने पर कानून मंत्री पीसी शर्मा ने  बयान दिया हैं। 7000 किसानों पर अलग-अलग मुकदमे दर्ज है | जो वापस लिए जायेंगे औरकिसानों की केस वापस लेने की प्रक्रिया शुरू   होंगईहै |  बताया जा रहा है की प्रदेश के सात हजार किसानो पर बीजेपी शासन में अलग अलग मामले  दर्ज थे | कानून मंत्री पीसी शर्मा ने कहा की किसानो पर लगे प्रकरण वापस लेना सरकार की प्रथमिकता है | साथ ही पिछली केबिनेट में किसानो की कर्जमाफी,सहित किसानों को आर्थिक सहायता कैसे दी जाए इस पर भी चर्चा की गई थी | कांग्रेस सरकार हर हाल में किसानो की हालत सुधरने की कोशिश कर रही है |

Dakhal News

Dakhal News 1 June 2019


jesh aatankvadi

खबर इस्लामाबाद से । पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत के सख्त रवैये ने पाकिस्तान की परेशानी बढ़ा दी है। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी यह कबूल कर चुके हैं कि जैश-ए-मोहम्मद का सरगना मसूद अजहर पाकिस्तान में ही है और वहां की सरकार उसके संपर्क में है। इस बीच, कुरैशी का एक और वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें जैश के बारे में पूछे जाने पर वे हकलाने लगते हैं। आप भी देखिए - दरअसल, बीबीसी के इंटरव्यू के दौरान कुरैशी ने कहा था कि जब जैश के लोगों से पूछा गया तो उन्होंने पुलवामा हमले में हाथ होने से इन्कार कर दिया। इसके पर पूछा गया कि पुलवामा हमले के बाद जैश से किसने संपर्क किया था, तो कुरैशी जवाब नहींं दे सके। वे हकलाने लगे और फिर किसी तरह स्थिति को संभालने की कोशिश में जुट गए। बकौल कुरैशी, हमें इस पर यकीन नहीं है कि जैश ने हमले की जिम्मेदारी ली है। इस पर जब पत्रकार ने पूछा, आपको इस बात का यकीन नहीं है कि जैश-ए-मोहम्मद पाकिस्तान में स्थित है? उन्होंने हमले की जिम्मेदारी ली है। कुरैशी ने जवाब दिया, इसमें कोई संदेह नहीं है। संदेह इस बात पर है कि जब जैश-ए-मोहम्मद से संपर्क किया गया तो उन्होंने इससे इनकार किया।'  

Dakhal News

Dakhal News 3 March 2019


modi

अहमदाबाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने  को वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट का उद्घाटन किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि भारत स्टार्टअप के मामले में दुनिया का सबसे बड़े ईकोसिस्टम है। भारत के साथ व्यापार करना श्रेष्ठ अवसर है क्योंकि हम दुनिया की टॉप 10 एफडीआई डेस्टिनेशंस में शामिल हैं। पीएम बोले कि दुनिया के बड़े आर्थिक संस्थानों विश्व बैंक और आईएमएफ ने भारत की अर्थव्यवस्था में भरोसा जताया है। हमारा ध्यान उन बाधाओं को दूर करने में है जो हमें हमारी सर्वोच्च क्षमता तक जाने से रोक रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार की औसत जीडीपी वृद्धि दर 7.3% रहीं है। जबकि वर्ष 1991 के बीच किसी भी सरकार की ऐसी वृद्धि नहीं हुई है। वहीं, महंगाई की औसत दर भी 4.6 फीसद है, जो 1991 के बाद किसी भी भारतीय सरकार के दौरान सबसे कम है। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने गुजरात के विकास में भागीदार होने को वाईब्रेंट गुजरात 2019 में आए देश व दुनिया के उद्यमियों का स्वागत करते हुए कहा कि गुजरात जैसे इन्वेस्टमेंट फ्रेंडली राज्य में निवेश के लिए विश्वास जताने के लिए धन्यवाद। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी के नए भारत के निर्माण के संकल्प के प्रति आभार जताया। रिलायंस समूह के अध्यक्ष मुकेश अंबानी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सन ऑफ गुजरात, प्राइड ऑफ गुजरात बताया। उन्होंने कहा गौतम अदाणी की तरह मुझे भी राज्य के सभी 9 वाईब्रेंट गुजरात निवेशक सम्मेलन में शामिल होने का सौभाग्य मिला है। अंबानी ने कहा कि मोदी विजनरी लीडर, उनके नेतृत्व में भारत तेजी से विकास करने वाली अर्थव्यवस्था बनी है। गुजरात रिलायंस की जन्मभूमि है, दुनिया में हमारे लिए भारत पहले और भारत में गुजरात पहले के संकल्प के साथ रिलायंस काम कर रहा है। बता दें कि इससे पहले पीएम मोदी ने उज्बेकिस्तान के राष्ट्रपति शावत मिर्ज़ियोयेव से मुलाकात की। बता दें कि, तीन दिनों तक चलने वाले निवेशकों का यह कार्यक्रम राजधानी गांधीनगर के महात्मा मंदिर में आयोजित हो रहा है। इसमें पांच देशों के राष्ट्राध्यक्ष और 30,000 राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे। कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले पांच देशों में उज्बेकिस्तान, रवांडा, डेनमार्क, चेक रिपब्लिक और माल्टा शामिल है। पीएम मोदी ने समित से इतर उज्बेकिस्तान के राष्ट्रपति शवकत मिर्जियोयेव के साथ गांधीनगर में द्वीपक्षीय वार्ता की। दोनों देशों के बीच दो एमओयू पर हस्ताक्षर हुए। इससे पहले पीएम ने माल्टा के प्रधानमंत्री जोसेफ मस्कट के साथ भी मुलाकात की थी। तीन दिनों के इस कार्यक्रम में वैश्विक फंड प्रमुखों के साथ राउंड-टेबल बातचीत होगी। बता दें कि, आज दूसरा दिन है। इससे पहले गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस कार्यक्रम का उद्घाटन किया था। आज वह दुनिया के विभिन्न नेता और हजारों प्रतिनिधियों की मौजूदगी में व्यापार बैठक का उद्घाटन करेंगे। इस मौके पर मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा कि, कार्यक्रम का समापन उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू की मौजूदगी में होगा।  

Dakhal News

Dakhal News 18 January 2019


pc sharma

  जनसम्पर्क, विधि एवं विधायी, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, विमानन, धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री श्री पी.सी. शर्मा ने कहा है कि प्रदेश सरकार बालिकाओं की सम्पूर्ण शिक्षा को नि:शुल्क करने के लिए रूप रेखा तैयार करने जा रही हैं, जिसको शीघ्र ही मूर्तरूप प्रदान किया जाएगा। श्री शर्मा ने बालिकाओं से कहा कि वे किसी भी स्थिति में आर्थिक तंगी की वजह से अपनी पढ़ाई न छोड़ें। आवश्यकता होने पर स्थानीय पार्षद, विधायक से या स्वयं उनसे सम्पर्क करें। हर संभव आवश्यक मदद की जाएगी। श्री शर्मा ने शासकीय नवीन उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, चूनाभट्टी के वार्षिकोत्सव समारोह में यह बात कही। जनसम्पर्क मंत्री श्री शर्मा ने मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा मॉडल का जिक्र करते हुए कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ रोजगार सृजनकर्ता है। आज की स्थिति में छिंदवाड़ा के नौजवान और नव युवतियां स्थानीय, प्रादेशिक, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कार्य कर रहे हैं। श्री कमल नाथ ने न केवल छिंदवाड़ा में अधोसरंचनात्मक विकास किया है, अपितु रोजगार सृजन के उपाय कर क्षेत्र के लोगों को रोजगार भी प्रदान किए हैं। अब पूरे प्रदेश में रोजगार सृजन के लिए विभिन्न उद्योग धंधें लगाए जाएंगे। साथ ही रोजगार प्रदान करने के अन्य उपाय भी किये जाएंगे। जनसम्पर्क मंत्री श्री शर्मा ने कहा कि स्कूली विद्यार्थियों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने के लिए समुचित उपाय किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जब भोपाल शहर स्मार्ट सिटी बन रहा है, तो स्कूल और उसकी कक्षाओं को भी स्मार्ट बनाया जाएगा। स्कूल का कोई भी कार्य रूकने नहीं देंगे। श्री शर्मा ने युवा संसद, कालिदास समारोह और मोगली उत्सव में प्रथम और द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया। समारोह की अध्यक्षता स्थानीय पार्षद श्रीमती सीमा प्रवीण सक्सेना ने की।  

Dakhal News

Dakhal News 18 January 2019


rohit sethi

    इंदौर का  संदीप तेल हत्याकांड में जांच जिस दिशा तक पहुंची है उससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि पुलिस मामले के खुलासे के करीब पहुंच गई है। पुलिस को जांच में यह भी पता चला कि रावजी बाजार क्षेत्र के बदमाश गब्बर चिकना उर्फ राजेश सोनकर व रवि चौहान उर्फ रवि चिकलिश का भी हत्या में हाथ हो सकता है। दोनों बदमाश गैंगस्टर सतीश भाऊ गिरोह के लिए काम करते हैं। गब्बर से कुछ दिनों पूर्व संदीप का विवाद भी हुआ था। संदीप ने उसे कमरे में बंद कर पिटाई कर दी थी। मेघदूतनगर निवासी चिकलिश शार्प शूटर है।संदीप की हत्या के पीछे सैकड़ों करोड़ का लेनदेन सामने आ रहा है। संदीप ने पिनेकल ड्रीम व डिजायर में करोड़ों रुपए निवेश किए थे। बिल्डर आशीष दास को भी करोड़ों रुपए ब्याज पर दिए थे। संदीप की हत्या के बाद बदमाशों के दो स्वार्थ पूरे हो रहे हैं। पहला पिनेकल से संदीप को बाहर करना, दूसरा बिल्डरों से अवैध वसूली करना। संदीप ने बहुत कम समय में अरबों रुपए कमा लिए थे। उसकी पहचान सट्टा किंग के रूप में भी थी। तत्कालीन एएसपी रमणसिंह सिकरवार की टीम ने उसे क्रिकेट सट्टा लगाने और नकली नोट के आरोप में पकड़ा था। संदीप एक बार पुलिस को चकमा देकर दीवार कूद गया था। तत्कालीन आईजी संजय राणा ने भी संदीप के खिलाफ कार्रवाई की थी। वह बिल्डरों को करोड़ों रुपए उधार देकर तगड़ा ब्याज वसलूता था। सट्टे, ब्याज के साथ वह डिब्बा कारोबार में भी लिप्त था।एसपी (पूर्वी) अवधेश गोस्वामी के मुताबिक, संदीप के खिलाफ 11 आपराधिक केस दर्ज होने की जानकारी मिली है। पुलिस साथियों की भी भूमिका जांच रही है।   हत्याकांड का एक संदेही रोहित सेठी है जिसका केबल को लेकर संदीप से विवाद था। रोहित के साथी मनोहर वर्मा ने कबूल किया है कि संदीप और रोहित के बीच 19 करोड़ के लेन-देन को लेकर विवाद चल रहा था।पुलिस ने रोहित के घर की छानबीन की। उसकी पत्नी को हिरासत में लिया । पुलिस को जांच में पता चला है कि रोहित दो दिन पहले तक इंदौर में ही था। अचानक बुधवार दोपहर के बाद उसका मोबाइल बंद हो गया। पुलिस ने पत्नी को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो पता चला कि वह घर पर भोपाल जाने का बोलकर निकला था। उसके बाद से मोबाइल बंद हो गया और उससे कोई संपर्क नहीं हुआ।पुलिस ने  मनोहर वर्मा से पूछताछ की तो उसने बताया कि रोहित ने संदीप को रुपए के बदले जमीन देने की बात कही थी। रोहित ने जमीन के दाम बढ़ाकर बताए। वर्मा ने  ने अपना और रोहित का हत्या में हाथ होने से इनकार किया है। पुलिस ने गुरुवार को संदीप के ड्राइवर अमित बेरवा, पूर्व कर्मचारी दीपक, दोस्त सुमित अवस्थी से भी पूछताछ की। इसके बाद पुलिस ने बब्बर चिकना, अल्पेश चौहान व सुमित सिरोलिया की तलाश शुरू कर दी। पुलिस ने मनीष शर्मा को हिरासत में ले लिया है। पुलिस के मुताबिक गाड़ी में तीन लोग थे। दो शूटर और एक गाड़ी चालक। तीनों ही भौंरासला (उज्जैन रोड) की ओर से गलियों में घुमते हुए विजयनगर चौराहे तक पहुंचे। हत्या के बाद वे भोपाल की ओर भागे।  

Dakhal News

Dakhal News 18 January 2019


nia zakir musa

 अमरोहा में आतंकी जाकिर मूसा के छिपे होने की सूचना और आईएस के नए मॉड्यूल की सूचना के बाद एनआई ने यूपी समेत 16 जगहों पर छापा मारा है। इस छापे में टीमों ने अब तक 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। दिल्ली पुलिस के साथ एनआईए, हरियाणा व पंजाब पुलिस तथा एटीएस की टीम छापामारी कर रही है। एनआई व एटीएस की टीम द्वारा अमरोहा के मुहल्ला मुल्लाना में पकड़े गए संदिग्ध आतंकी मुफ्ती सुहैल के घर से बरामद सामान को पुलिस साथ ले गई। खबरों के अनुसार नोगावा सादात के गांव सैदपुर इम्मा निवासी तीन सगे भाइयों के आतंकी संगठन से जुड़ा होने के शक में हिरासत में लिया गया है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल व एटीएस ने उन्हें घर में नजरबंद कर लिया है तथा पूछताछ जारी है। जिले में अलर्ट जारी कर दिया गया है। मामला नोगावा सादात के गांव सैदपुर इम्मा से जुड़ा है। यहां पर शहीद अहमद का परिवार रहता है। वह नगर कोतवाली क्षेत्र में धनोरा अड्डे पर वेल्डिंग की दुकान करता है तथा पास के ही मुहल्ला इस्लाम नगर में भी उसका मकान है। इस दौरान एटीएस व दिल्ली पुलिस ने मुहल्ला मुल्लाना जामा मस्जिद निवासी मुफ्ती सुहैल को पकड़ा है और उनकी निशानदेही पर घर से टाइमर, पिस्टल, गोला बारूद बरामद किए जाने की चर्चा। मुहल्ला पचडरा से सिराज लस्सी वाले के भतीजे इरशाद को भी हिरासत में लिया। शहर में पुलिस का पहरा बढ़ाया गया है। बुधवार सुबह दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल व एटीएस की टीम एसपी डॉ विपिन टाडा से मिली तथा सैदपुर इम्मा में शहीद अहमद के घर छापा मारने के लिए स्थानीय पुलिस का सहयोग लिया। सबसे पहले टीम ने नगर कोतवाली क्षेत्र के मुहल्ला शाही चबूतरा, जामा मस्जिद व इस्लाम नगर में छापा मारा। बताया जा रहा है कि यहां से टीम किसी को साथ नही ले गई। उसके बाद गांव सैदपुर इम्मा में शहीद के घर छापा मार दिया। लगभग 20-24 गाड़ियां गांव पहुची तो हड़कंप मच गया। फौरन ही शहीद के घर की घेराबंदी कर ली गई तथा उसके परिजनों को घर मे बंद कर लिया। आसपास के घरों पर भी पहरा बैठा दिया गया। शहीद के तीन बेटों अनीस, इदरीस व नफीस को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी है। बताया जा रहा है कि तीन माह पहले डीएनएस कालेज के छात्रों द्वारा आतंकी जमशेद को पिस्टल बेचने वाले प्रकरण के बाद से इन तीनो भाइयों पर टीम की नजर थी। तीनो भाई वैल्डिंग का काम करने के साथ ही गांव में मजदूरी भी करते हैं। साथ ही जाकिर मूसा से भी इस मामले को जोड़कर देखा जा रहा है। अभी स्थानीय पुलिस कुछ भी बताने से इनकार कर रही है। परिजनों से पूछताछ जारी है। एएसपी बृजेश सिंह ने बताया कि नगर क्षेत्र व सैदपुर इम्मा में छापेमारी हुई है। अभी कोई ठोस जानकारी नही मिली है। बताया कि जिले में अलर्ट घोषित कर दिया गया है।  

Dakhal News

Dakhal News 26 December 2018


अमेरिका होंडुरास के हजारों शरणार्थियों को रोकेगा

    अमेरिका की ओर बढ़ रहे होंडुरास के हजारों शरणार्थियों का काफिला एक नदी पार करके मेक्सिको के तपाचुला शहर पहुंच गया है। भारी बारिश के बीच उन्हें अस्थायी कैंपों में ठहराया गया है। दूसरी ओर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने  कहा कि इन शरणार्थियों को अमेरिका की ओर बढ़ने से रोकने के लिए 'सभी प्रयास' किए जा रहे हैं। यदि शरणार्थियों का काफिला इसी तरह बढ़ता रहा तो वे अमेरिका-मेक्सिको सीमा बंद कर देंगे। इससे पहले मेक्सिको प्रशासन ने अपने देश और ग्वाटेमाला के बीच सीमा पर बने एक पुल पर इस काफिले को रोकने का प्रयास किया। लेकिन, कई शरणार्थी नदी में घुस गए और उन्होंने रविवार को फिर से अमेरिका की ओर बढ़ना शुरू कर दिया। पैदल सफर कर रहे इन शरणार्थियों ने थकान के बावजूद बस सेवा लेने की पुलिस की पेशकश मानने से इस आशंका से इन्कार कर दिया कि कहीं उनको वापस न भेज दिया जाए। दूसरी तरफ, ट्रंप ने ट्वीट कर कहा कि अवैध शरणार्थियों को दक्षिणी सीमा पार करने से रोकने के लिए सभी प्रयास किए गए हैं। लोगों को पहले मेक्सिको में शरण के लिए आवेदन देना होगा और अगर वे ऐसा करने में नाकाम रहे तो अमेरिका उन्हें वापस भेज देगा। मेक्सिको सरकार ने भी कहा है कि यदि शरणार्थियों ने उनके यहां शरण नहीं मांगी, तो उन्हें वापस उनके देश भेज दिया जाएगा। स्थिति पर नजर रख रहे संघीय पुलिस कमांडर के अनुसार, करीब 3,000 लोगों का काफिला मेक्सिको में आगे बढ़ रहा है। इसके अलावा तकरीबन एक हजार शरणार्थी अब भी इस उम्मीद में पुल पर फंसे है कि वे अवैध रूप से ग्वाटेमाला के रास्ते मेक्सिको में प्रवेश कर सकें। इन शरणार्थियों में महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं। ग्वाटेमाला के राष्ट्रपति जिमी मोराल्स ने कहा कि होंडुरास से 5,000 से भी ज्यादा शरणार्थी उनके देश आए थे। लेकिन, उनमें से करीब 2,000 स्वदेश लौट गए।

Dakhal News

Dakhal News 23 October 2018


pakistan

    'मैं देशद्रोही नहीं हूं। मैं और मेरा परिवार पाकिस्तान की जमीन से प्यार करता है। इस वतन से मुहब्बत के चलते ही बंटवारे के वक्त मेरा परिवार यहां आ गया था।' पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने सोमवार को देशद्रोह के मुकदमे की सुनवाई के दौरान अपने बचाव में ये बातें लाहौर में कहीं। नवाज शरीफ ने एक इंटरव्यू में 2008 के मुंबई आतंकी हमले में पाकिस्तान का हाथ होने की बात स्वीकारी थी। उनके इस बयान को देशद्रोह बताते हुए सिविल सोसायटी की सदस्य अमीना मलिक ने नवाज और उनका इंटरव्यू लेने वाले पत्रकार सिरिल अलमीडा पर देशद्रोह का मुकदमा चलाने के लिए याचिका दायर की थी। नवाज के इस बयान पर विवाद के बाद तत्कालीन प्रधानमंत्री शाहिद खाकन अब्बासी ने राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद की बैठक भी बुलाई थी। बाद में अब्बासी ने नवाज से मिलकर उन्हें इस बैठक में हुई चर्चा से अवगत कराया था। इसके लिए मलिक ने अब्बासी पर भी केस किया है। लाहौर हाई कोर्ट में अपना पक्ष रखते हुए नवाज ने कहा, 'जिस व्यक्ति ने देश को परमाणु राष्ट्र बनाया वह देशद्रोही कैसे हो सकता है। हाल में हुए उपचुनाव में जिस व्यक्ति की पार्टी को सबसे ज्यादा वोट मिले वह देशद्रोही कैसे हो सकता है? मैं लाखों देशवासियों का प्रतिनिधित्व करता हूं, क्या वे देशद्रोही हो सकते हैं?' अब्बासी ने भी बैठक की जानकारी नवाज से साझा करने के आरोपों से इन्कार किया। जबकि अलमीडा ने कहा कि वह पत्रकार हैं और उन्होंने केवल इंटरव्यू छापा है। यह कोई देशद्रोह नहीं है। केस की सुनवाई 12 नवंबर तक के लिए स्थगित कर दी गई है।  

Dakhal News

Dakhal News 23 October 2018


पेंटागन में रक्षा सचिव जिम मैटिस को खत के जरिए भेजा जहर

वाशिंगटन में  पेंटागन ने मंगलवार को बताया कि उसे एक चिटठी् मिली है, जिसके लिफाफे में खतरनाक जहर राइसिन होने का शक है। एक अमेरिकी अधिकारी के अनुसार यह पत्र रक्षा सचिव जिम मैटिस को भेजा गया था। पेंटागन ने बयान जारी कर कहा कि उन्होंने संदिग्‍ध खत को अलग रखा है और एफबीआई लिफाफों की जांच कर रही है। वहीं पहचान न बताने की शर्त पर एक अधिकारी ने बताया कि सोमवार को पुलिस को पेंटागन परिसर में चिट्ठी छांटते वक्त इन लिफाफों में राइसिन मिला है, हालांकि यह उसके मुख्य भवन से नहीं मिला है। इसके अलावा अमेरिकी खुफिया संस्था ने बताया कि वे राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को भेजे गए एक संदिग्ध लिफाफे की भी जांच कर रहे हैं जो उन्हें मंगलवार को मिला था, मगर यह पत्र वाइट हाउस तक नहीं पहुंच सका। इसके अलावा इस संस्था ने कोई और जानकारी नहीं दी। हालांकि अभी तक दोनों मामले एक-दूसरे से संबंधित है या नहीं, यह पता नहीं चल सका है। राइसिन एक घातक जहर है, जिसे जैविक हथियार बनाने में भी इन दिनों इस्‍तेमाल किया जाता है। राइसिन से इंसान की मौत 36 से 72 घंटे के अंदर हो जाती है। इस जहर का कोई तोड़ नहीं है। अमेरिकी सरकार के विभागों में राइसिन जहर के खत आते रहते हैं। इससे पहले 2013 में ऐसा ही पत्र एक अमेरिकी सांसद, व्‍हाइट हाउस और मिसीसिपी के न्यायाधीश को भी भेजा गया था।  

Dakhal News

Dakhal News 3 October 2018


वायुसेना के लिए राफेल बूस्टर डोज

  राफेल डील को लेकर कांग्रेस के विरोध और आरोपों के बीच एक बार फिर से वायुसेना ने इस डील का समर्थन किया है। जहां एक तरफ विपक्ष इस डील को लेकर हंगामा कर रहा है वहीं इस बार खुद वायुसेना प्रमुख ने बुधवार को इस डील का समर्थन किया है। उन्होंने दिल्ली में एक बयान में इसे बूस्टर डोज करार दिया है। खबरों के अनुसार वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ ने एक बयान में कहा कि राफेल एक अच्छा एयरक्राफ्ट है और जहां तक उपमहाद्वीप की बात है तो यह गेम चेंबर साबित होगा। उन्होंने कहा कि इस डील में हमें कई फायदे हैं। राफेल और एस400 एयर मिसाइल डिफेंस सिस्टम डील हमारे लिए एक बूस्टर डोज होगा।  

Dakhal News

Dakhal News 3 October 2018


 डीजल-पेट्रोल के दाम में आग

 देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी का दौर जारी है। शनिवार को राजधानी दिल्ली में पेट्रोल 22 पैसे और डीजल 21 पैसे महंगा हो गया। दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 83.40 रुपए रही, वहीं डीजल 74.63 लीटर पर बेचा जा रहा है। मुंबई में पेट्रोल 90.75 रुपए प्रति लीटर पर पहुंच गया है। डीजल 79.23 प्रति लीटर है। मालूम हो, तेल की कीमतों में लगातार तेजी देखने को मिल रही है। गुरुवार को 13 पैसे की बढ़ोतरी के बाद शुक्रवार को फिर से तेल के दामों में बढ़ोतरी दर्ज हुई थी। वैश्विक स्तर पर कच्चे तेल की कीमतें और अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया के स्थिति के आधार पर ही सरकारी तेल विपणन कंपनियां पेट्रोल एवं डीजल की कीमतों में संशोधन करती हैं। आईओसी, भारत पेट्रोलियम कॉर्प लिमिटेड (बीपीसीएल) और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्प लिमिटेड (एचपीसीएल) देश की तीन प्रमुख सरकारी तेल विपणन कंपनियां हैं। गौरतलब है कि भारत अपनी जरूरत के कच्चे तेल का 80 फीसद हिस्सा आयात करता है। भारत के आयात बिल में पेट्रोल और डीजल की एक बड़ी हिस्सेदारी होती है। पेट्रोलियम उत्पादों की कीमत में आधा हिस्सा केंद्र और राज्य सरकारों के स्तर पर लगने वाले टैक्स का है। कंपनियों के मुताबिक रिफाइनरी पर पेट्रोल की लागत करीब 40.50 रुपये और डीजल की कीमत करीब 43 रुपये प्रति लीटर पड़ती है। केंद्र सरकार पेट्रोल और डीजल पर प्रति लीटर क्रमश: 19.48 रुपये और 15.33 रुपये उत्पाद शुल्क वसूलती है। इसके ऊपर राज्य सरकारें इन पर मूल्यवर्धित कर (वैट) लगाती हैं। वैट की दरें विभिन्न राज्यों में अलग-अलग हैं। अंडमान एवं निकोबार में दोनों ईंधनों पर सबसे कम छह फीसद की दर से टैक्स वसूला जाता है। वहीं पेट्रोल पर मुंबई में सर्वाधिक 39.12 फीसद और डीजल पर तेलंगाना में सर्वाधिक 26 फीसद वैट लगता है। दिल्ली में पेट्रोल-डीजल पर वैट की दरें क्रमश: 27 फीसद और 17.24 फीसद हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 29 September 2018


ट्रंप ने कहा -उत्तर कोरिया पर हमले की तैयारी में थे ओबामा

  अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने दावा किया है कि वह राष्ट्रपति चुनकर ना आते तो पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा उत्तर कोरिया पर हमले के लिए पूरी तैयारी कर चुके थे। उन्होंने पूर्ववर्ती ओबामा प्रशासन पर दोनों देशों के संबंध सुधारने में विफल रहने का आरोप भी लगाया। ट्रंप ने गुरुवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, 'मैं राष्ट्रपति निर्वाचित नहीं होता तो उत्तर कोरिया के साथ युद्ध हो जाता। ओबामा युद्ध के बहुत करीब पहुंच चुके थे। यह युद्ध इतना भयानक होता कि हजारों नहीं बल्कि लाखों लोग मारे जाते। यह विश्व युद्ध में तब्दील हो सकता था।' अपने दावे को मजबूत करते हुए उन्होंने आगे कहा, 'खुद ओबामा ने मुझे इस बारे में बताया था। राष्ट्रपति बनने के बाद से मेरे उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन के साथ व्यक्तिगत और बतौर अमेरिकी राष्ट्रपति संबंधों में सुधार हुआ है। हाल में किम ने मुझे पत्र भेजा है। मेरी और किम की जल्द बैठक की तैयारी को लेकर विदेश मंत्री माइक पोंपियो अगले महीने उत्तर कोरिया की राजधानी प्योंगयांग जाएंगे।' ट्रंप ने उम्मीद जताई कि कोरियाई प्रायद्वीप के परमाणु निरस्त्रीकरण को लेकर दोनों देशों के बीच समझौता हो सकता है। ट्रंप ने कहा, मेरे साथ अच्छे संबंधों के चलते किम भी यह समझौता चाहते हैं। ट्रंप ने मीडिया पर भी निशाना साधा और कहा, किम से मुलाकात करने पर मीडिया ओबामा को राष्ट्रीय नायक के तौर पर पेश करती।

Dakhal News

Dakhal News 27 September 2018


डोनाल्ड ट्रंप की नई लीमो द बीस्ट  चर्चा में

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के लिए नई लिमोजिन कार आ गई है, जिसका नाम 'द बीस्ट' है। अमेरिका के राष्ट्रपति के लिए जनरल मोटर्स कैडिलैक लिमो को खास तौर पर बनाती है। इस कार में कई बदलाव किए गए हैं और इसमें पहले से अधिक सिक्योरिटी फीचर्स हैं। लिहाजा, इसकी कीमत भी काफी अधिक है। बताया जा रहा है कि कार की कीमत करीब 15 लाख डॉलर है। देश की सीक्रेट सर्विसेज के खास निर्देशों के बाद ही इसे तैयार किया जाता है। ट्रक प्लेटफॉर्म पर बनी इस कार का वजह करीब सात टन से अधिक हो सकता है। इस कार के पुराने वर्जन को अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इस्तेमाल किया था। प्रेसीडेंट की नई कार बड़ी है, और इसमें सात लोगों के बैठने की जगह है। कार के रेफ्रिजरेटर में ट्रंप के ब्लड ग्रुप वाला खून भरा रहता है। इसके बावजूद रेफ्रिजरेटर में इतनी जगह रहती है कि उसमें 12 कैन डाइट कोक के रखे रहें। बताते चलें कि इतनी मात्रा में डाइट कोक ट्रंप रोजाना पीते हैं। इसके अलावा कार में ऑक्सीजन टैंक, बुलेट और बम प्रूफ शेल, रन फ्लैट टायर लगे होंगे। बताया जा रहा है कि कार की दीवारें करीब आठ इंच मोटी हैं। इसके खिड़की दरवाजे करीब पांच इंच मोटे हैं, जो कि 757 जेट से ज्यादा मजबूत हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 27 September 2018


kamlnath

  इंदौर में मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ का कहना है कि आने वाला विधानसभा चुनाव प्रदेश के भविष्य को तय करेगा। राजनीतिक जीवन में मैंने कभी ऐसा दौर नहीं देखा जब हर वर्ग खुद को ठगा महसूस कर रहा है। ढाई हजार लोग कांग्रेस से टिकट के लिए कतार में हैं। इन दावेदारों में भाजपा के 30 विधायक भी शामिल हैं। टिकट सिर्फ सर्वे के आधार पर ही बांटे जाएंगे।' कमलनाथ ने यह बात रविवार को प्रेस क्लब में पत्रकार वार्ता में कही। उन्होंने कहा कि भाजपा कलाकारी की राजनीति कर रही है। कांग्रेस आजादी के पहले गोरों से लड़ी थी अब चोरों से लड़ेगी। अध्यक्ष की कुर्सी संभालने के बाद पहली बार इंदौर आए कमलनाथ अपने स्वागत में सड़क पर उमड़े कार्यकर्ताओं का हुजूम देख खुश नजर आए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की नजर किसान, युवा और व्यापारियों पर है। उन्होंने नारा दिया कि 'कांग्रेस की सरकार बनी तो हर किसान के हाथ में दाम होगा, युवा के हाथ में काम होगा और व्यापारी को टैक्स से आराम होगा।' आरक्षण के साथ न्याय के भी साथ : एट्रोसिटी एक्ट में संशोधन के खिलाफ आंदोलन पर कमलनाथ ने कहा कि हम आरक्षण व एट्रोसिटी एक्ट को जरूरी मानते हैं, पर सबके साथ न्याय हो, यह भी हमारा सोच है। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि पार्टी के सभी विधायक और कार्यकर्ता कमलनाथ से संपर्क करते हुए उन्हें यह जरूर बोलना चाहते हैं कि वो प्रदेश में कांग्रेस की हालत समझें और प्रदेश की राजनीति छोड़ दिल्ली की राजनीति में रुचि लें या वापस अपने गृह प्रदेश बंगाल (कोलकाता) लौट जाएं।  

Dakhal News

Dakhal News 17 September 2018


baba ramdev

  पेट्रोल और डीजल के दामों में आग लगी हुई है। रोज तेल के दाम नई ऊंचाईयों को छू रहे हैं। मुंबई में पेट्रोल की कीमत 89 रुपए के स्तर को पार कर चुकी है। इस बीच बाबा रामदेव ने कहा है कि अगर सरकार उन्हें इजाजद दे, तो वह 35 से 40 रुपए लीटर में पेट्रोल और डीजल बेच सकते हैं। उन्‍होंने कहा कि अगर सरकार मुझे ऐसा करने की इजाजत दे और टैक्‍स में कुछ छूट दे, तो मैं भारत को 35-45 रुपए लीटर में पेट्रोल-डीजल दे सकता हूं। उन्‍होंने कहा कि पेट्रोल-डीजल की ऊंची कीमतों का अगले साल चुनाव पर असर पड़ेगा। बढ़ोतरी रोकने के लिए केंद्र सरकार को कदम उठाना चाहिए। रामदेव ने कहा कि ईंधन की कीमतों को जीएसटी के निम्नतम दायरे में लाया जाए, न कि अधिकतम 28 फीसद के स्लैब में। लोगों की जेब तेल के महंगे होने से खाली हो रही हैं। लगातार बढ़ते पेट्रोल के दाम से मोदी सरकार दबाव में है। हालांकि, लगातार गिरती रुपए की कीमत और अमेरिका द्वार ईरान पर लगाए गए प्रतिबंध आदि कुछ ऐसी वैश्विक वजहें हैं, जिससे सरकार पेट्रोल की कीमतों में कटौती नहीं कर सकती है। अगर मोदी सरकार पेट्रोल और डीजल पर एक रुपए की कटौती करती है, तो उसे राजस्व में 14 हजार करोड़ रुपए का नुकसान होगा। इससे वित्तीय घाटे को जीडीपी के 3.3 फीसद के लक्ष्य तक ले जाने में सरकार विफल हो जाएगी। बताते चलें कि वर्तमान में सरकार पेट्रोल पर 19.48 रुपए प्रति लीटर और डीजल पर 15.33 रुपए प्रति लीटर एक्साइज ड्यूटी लगाती है। वहीं, हर राज्यों में वैट की दर अलग-अलग हैं। रामदेव ने कहा कि वह किसी एक दल के साथ नहीं हैं। महंगाई के सवाल पर बाबा रामदेव ने कहा कि मैं या आप कहें या न कहें पर मोदी सरकार को ये महंगाई कम करनी होगी। अगर ये महंगाई कम नहीं की, तो ये आग उन्‍हें ले डूबेगी।    

Dakhal News

Dakhal News 17 September 2018


kumarsvami

  बैंगलुर से अच्छी खबर।  पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के बीच कर्नाटक की कांग्रेस सरकार ने राज्य में तेल की कीमतें दो रुपए कम कर दी हैं। सूबे के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने इसका ऐलान किया है। इससे पहले तेलंगाना ने भी पेट्रोल-डीजल की कीमतों में दो रुपए की कटौती की थी। इससे पहले राजस्थान की भाजपा सरकार ने भी पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती की थी। वसुंधरा सरकार ने राज्य में पेट्रोल-डीजल पर लगने वाले वैट में चार फीसद की कटौती की थी। इस बीच पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोतरी का सिलसिला जारी है। सोमवार को पेट्रोल 15 पैसे और डीजल 6 पैसे महंगा हुआ। दिल्ली में पेट्रोल के दाम 82.06 रुपए/लीटर और डीजल के दाम 73.78 रुपए/लीटर रहे। वहीं मुंबई में पेट्रोल रिकॉर्ड 89.44 रुपए/लीटर पर रहा। देश की आर्थिक राजधानी में डीजल के दाम 78.33 रुपए/लीटर रहे।

Dakhal News

Dakhal News 17 September 2018


sc st ect

 एससी-एसटी एक्ट में सशोधन के खिलाफ गुरुवार को भारत बंद रहा वहीं इस पर राजनीति भी तेज हो गई है। इस बीच यह मामला एक बार फिर से सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। इस बार वकील पृथ्वी राज चौहान और प्रिया शर्मा ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की है। इस याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया है और 6 हफ्ते में जवाब मांगा है। अपनी याचिका में दोनों ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के 20 मार्च के आदेश को लागू किया जाए। एससी-एसटी संशोधन के माध्यम से जोड़े गए नए कानून 2018 में नए प्रावधान 18 A के लागू होने से फिर दलितों को सताने के मामले में तत्काल गिरफ्तारी होगी और अग्रिम जमानत भी नहीं मिल पाएगी। याचिका में नए कानून को असंवैधानिक घोषित करने की मांग की गई है। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर 6 सप्ताह में जवाब मांगा है। कोर्ट ने कानून पर रोक लगाने से इनकार कर दिया। कोर्ट ने कहा है कि बिना सुनवाई रोक लगाना वाजिब नहीं है।गौरतलब है कि एससी-एसटी संशोधन कानून 2018 को लोकसभा और राज्यसभा ने पास कर दिया था और इसे नोटिफाई कर दिया गया है। सुप्रीम कोर्ट ने गत 20 मार्च को दिये गए फैसले में एससी-एसटी कानून के दुरुपयोग पर चिंता जताते हुए दिशा निर्देश जारी किये थे। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि एससी एसटी अत्याचार निरोधक कानून में शिकायत मिलने के बाद तुरंत मामला दर्ज नहीं होगा डीएसपी पहले शिकायत की प्रारंभिक जांच करके पता लगाएगा कि मामला झूठा या दुर्भावना से प्रेरित तो नहीं है। इसके अलावा इस कानून में एफआईआर दर्ज होने के बाद अभियुक्त को तुरंत गिरफ्तार नहीं किया जाएगा। सरकारी कर्मचारी की गिरफ्तारी से पहले सक्षम अधिकारी और सामान्य व्यक्ति की गिरफ्तारी से पहले एसएसपी की मंजूरी ली जाएगी। इतना ही नहीं कोर्ट ने अभियुक्त की अग्रिम जमानत का भी रास्ता खोल दिया था। सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद देशव्यापी विरोध हुआ था, जिसके बाद सरकार ने कानून को पूर्ववत रूप में लाने के लिए एससी एसटी संशोधन बिल संसद में पेश किया था और दोनों सदनों से बिल पास होने के बाद इसे राष्ट्रपति के पास मंजूरी के लिए भेजा गया था। राष्ट्रपति की मंजूरी मिलने के बाद संशोधन कानून प्रभावी हो गया। इस संशोधन कानून के जरिये एससी एसटी अत्याचार निरोधक कानून में धारा 18 ए जोड़ी गई है जो कहती है कि इस कानून का उल्लंघन करने वाले के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने से पहले प्रारंभिक जांच की जरूरत नहीं है और न ही जांच अधिकारी को गिरफ्तारी करने से पहले किसी से इजाजत लेने की जरूरत है। संशोधित कानून में ये भी कहा गया है कि इस कानून के तहत अपराध करने वाले आरोपी को अग्रिम जमानत के प्रावधान (सीआरपीसी धारा 438) का लाभ नहीं मिलेगा यानी अग्रिम जमानत नहीं मिलेगी।  

Dakhal News

Dakhal News 7 September 2018


 रेत माफिया ने ट्रैक्टर से कुचलकर डिप्टी रेंजर की हत्या की

मध्यप्रदेश के मुरैना में एक बार रेत माफिया ने पुलिस को चुनौती दी है। अवैध उत्खनन कर रेत ले जा रहे एक ट्रैक्टर रोकने की कोशिश कर रहे डिप्टी रेंजर को ट्रैक्टर चालक ने कुचल दिया। डिप्टी रेंजर की मौत हो गई। मिली जानकारी के मुताबिक घटना एबी रोड के धौलपुर रोड पर वन नाका डिपो की है। मुरैना वन मंडल में पदस्थ सूबेदार सिंह कुशवाहा (58) यहां ड्यूटी कर रहे थे। इसी दौरान उन्हें रेत ले जा रहा एक ट्रैक्टर दिखा। डिप्टी रेंजर कुशवाह ने ट्रैक्टर रोकने की कोशिश की तो चालक ने ट्रैक्टर दौड़ा दिया और डिप्टी रेंजर को रौंद दिया और फरार हो गया। साथी कर्मी उन्हें तुरंत अस्पताल लेकर पहुंचे लेकिन तब तक उन्होंने दम तोड़ दिया। मुरैना एसपी अमित सांघी ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि पुलिस ने ट्रैक्टर चालक के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Dakhal News

Dakhal News 7 September 2018


आतंकी जलालुद्दीन हक्कानी की मौत

  अफगानिस्तान में मुल्ला उमर के बाद आतंक का दूसरा नाम माना जाने वाले जलालुद्दीन हक्कानी की लंबी बीमारी के बाद मौत हो गई। जलालुद्दीन को अफगानिस्तान में दफनाया गया। वह अफगानिस्तान में सक्रिय आतंकवादी संगठन हक्कानी नेटवर्क का संस्थापक था। माना जाता है कि मुल्ला उमर की मौत के बाद तालिबान को एक रखने में हक्कानी ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।जलालुद्दीन का बेटा सिराजुद्दीन फिलहाल इस आतंकी समूह का प्रतिनिधित्व करता और वह तालिबान का उप-नेता भी है। अफगान तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने ने हक्कानी नेटवर्क के संस्थापक जलालुद्दीन की मौत की घोषणा की। वहीं, निगरानी समूह एसआईटीई ने अफगान तालिबान के बयान के हवाले से बताया, ‘उसने अल्लाह के धर्म के लिए बहुत कठिनाइयों का सामना किया। साथ ही उसने अपने जीवन के आखिरी वर्षों के दौरान लंबी बीमारी का भी सामना किया।' हक्कानी नेटवर्क की स्थापन सोवियत संघ के खिलाफ जिहाद के लिए की गई थी। जलालुद्दीन अफगान मुजाहिद्दीन का कमांडर था जो 1980 में अफगानिस्तान के सोवियत कब्जे से अमेरिका और पाकिस्तान की मदद से लड़ता था। बाद में जलालुद्दीन तालिबान सरकार में मंत्री भी बना। साल में 2001 तालिबान सरकार के गिर जाने के बाद हक्कानी भाग खड़ा हुआ और उसने दोबारा हथियार उठा लिए थे। उसने ओसामा बिन लादेन सहित अरबी जिहादियों के साथ करीबी संबंध बनाए थे।  

Dakhal News

Dakhal News 4 September 2018


राफेल विमान

एक तरफ जहां 59 हजार करोड़ रुपए में 36 राफेल विमान खरीदने के सौदे को लेकर कांग्रेस लगातार भाजपा सरकार पर हमला कर रही है। वहीं, दूसरी तरफ मोदी सरकार एक और डील करने जा रही है। सरकार 20 अरब डॉलर (1.4 लाख करोड़ रुपए) में 114 नए लड़ाकू विमान खरीदने की तैयारी कर रही है। बताया जा रहा है कि यह दुनिया का सबसे बड़ा रक्षा सौदा होगा। रक्षा मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में डिफेंस एक्वीजिशन काउंसिल इस महीने के अंत में या अगले महीने की शुरुआत में 114 जेट विमानों के लिए एक्सेप्टेंस ऑफ नेसेसिटी पर विचार कर सकती है। इस प्रस्तावित प्रोजेक्ट के तहत सौदा होने के तीन से पांच साल के अंदर 18 विमान फ्लाई-अवे कंडीशन (आते ही इस्तेमाल के लिए तैयार) के साथ आएंगे। वहीं, बाकी विमानों को भारत में स्ट्रेटेजिक पार्टनरशिप पॉलिसी के तहत विदेशी विमान कंपनियों और भारतीय कंपनियों के सहयोग से बारत में विकसित किया जाएगा। मजेदार बात यह है कि रूस के सुखोई-35 फाइटर ने भी बोली लगाई है। इसके लिए वायुसेना ने आरएफआई (सूचना के लिए अनुरोध) या शुरूआती निविदा अप्रैल में जारी की थी। अधिकारियों ने कहा कि भारत में अत्याधुनिक रक्षा प्रौद्योगिकी लाने के मकसद से हाल में शुरू रणनीतिक भागीदारी मॉडल के तहत भारतीय कंपनी के साथ मिलकर विदेशी विमान निर्माता लड़ाकू विमानों का उत्पादन करेंगे। वायुसेना पुराने हो चुके कुछ विमानों को बाहर करने के लिए अपने लड़ाकू विमान बेड़े की गिरती क्षमता का हवाला देते हुए विमानों की खरीद प्रक्रिया में तेजी लाने पर जोर दे रही है। सरकार ने पांच साल पहले वायु सेना के लिए 126 मध्यम बहु भूमिका लड़ाकू विमान (एमएमआरसीए) की खरीद प्रक्रिया को रद्द कर दिया था। इसके बाद लड़ाकू विमानों के लिए यह पहला बड़ा सौदा होगा। इससे पहले राजग सरकार ने सितंबर 2016 में 36 राफेल दोहरे इंजन वाले लड़ाकू विमानों की खरीद के लिए फ्रांस सरकार के साथ करीब 59000 करोड़ रूपये के सौदे पर दस्तखत किए थे। बता दें कि फ्रांस के साथ केंद्र सरकार के करार को लेकर कांग्रेस के हमलों के बीच तीन राफेल लड़ाकू विमान रविवार को पहली बार भारत पहुंच गए हैं। ये विमान तीन दिन तक ग्वालियर एयरबेस पर रहेंगे और वायुसेना के पायलट इन पर प्रशिक्षण हासिल करेंगे। ये लड़ाकू विमान ऑस्ट्रेलिया में एक अंतरराष्ट्रीय युद्धाभ्यास में शामिल होने गए थे। वहां से लौटते हुए ग्वालियर आए।  

Dakhal News

Dakhal News 4 September 2018


ईरान परमाणु

  सरकार पर आर्थिक और राजनीतिक दबाव बढ़ता देख ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्लाह अली खामनेई ने कहा कि परमाणु समझौता अगर देश हित में नहीं रहा तो उनकी सरकार इससे हटने के लिए तैयार है। उन्होंने यह भी दोहराया कि इस मसले पर उनका देश अमेरिका के ट्रंप प्रशासन से कोई बातचीत नहीं करेगा। बता दें कि इस साल मई में अमेरिका इस समझौते से पीछे हट गया था। तभी से इस समझौते पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। हालांकि बाकी देश समझौते पर कायम रहने की प्रतिबद्धता जता चुके हैं। बुधवार को कैबिनेट की बैठक में खामनेई ने कहा, "स्वाभाविक तौर पर अगर हम इस नतीजे पर पहुंचते हैं कि यह अब हमारे हित में रहा है तो हमें इससे हट जाना चाहिए।" उन्होंने हालांकि यह भी कहा कि इस समझौते को बचाने के लिए यूरोपीय संघ के साथ बातचीत जारी रखी जाए। लेकिन इस मसले पर ईरानी सरकार बहुत उम्मीद नहीं करे।" परमाणु समझौते से अमेरिका के हटने के बाद ईरान में राष्ट्रपति हसन रूहानी सरकार की मुश्किलें बढ़ गई हैं। उनके सियासी प्रतिद्वंद्वियों ने संसद में उनको घेरना शुरू कर दिया है। उनका दावा है कि आने वाले दिनो में रूहानी सरकार के कुछ और मंत्रियों की रवानगी तय है। संसद इसी महीने श्रम और आर्थिक मामलों के मंत्रियों को पहले ही बर्खास्त कर चुकी है। इस पर खामनेई ने कहा कि सियासी टकराव ईरान के लोकतंत्र की ताकत का संकेत है। रूहानी के कार्यकाल में ही अमेरिका समेत दुनिया के छह शक्तिशाली देशों के साथ यह समझौता हुआ था। ईरान ने साल 2015 में अमेरिका, रूस, फ्रांस, ब्रिटेन, चीन और जर्मनी के साथ परमाणु समझौता किया था। इस समझौते के बाद ईरान पर लगे प्रतिबंधों को हटा लिया गया था। लेकिन अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस साल मई में समझौते को दोषपूर्ण करार देकर इससे हटने का एलान कर दिया और तीन हफ्ते पहले उस पर फिर प्रतिबंध थोप दिए। प्रतिबंधों के खिलाफ आईसीजे पहुंचा है ईरान ईरान ने दोबारा थोपे गए प्रतिबंधों को हटवाने की मांग को लेकर संयुक्त राष्ट्र की शीर्ष अदालत इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (आईसीजे) का दरवाजा खटखटाया है। उसने दलील दी है कि अमेरिकी प्रतिबंधों से उसकी अर्थव्यवस्था तबाह हो रही है। फिलहाल इस मामले की सुनवाई चल रही है। इस पर महीने भर के अंदर फैसला आने की उम्मीद है।

Dakhal News

Dakhal News 30 August 2018


अबू बकर अल बगदादी

आईएस सरगना अबू बकर अल बगदादी ने अपने कथित नए ऑडियो में मुस्लिम समुदाय से जिहाद छेड़ने का आह्वान किया है। बेरुत। कुख्यात आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के सरगना अबू बकर अल बगदादी ने अपने कथित नए ऑडियो में मुस्लिम समुदाय से जिहाद छेड़ने का आह्वान किया है। लगभग सालभर बाद ईद अल-अजहा के मौके पर जारी टेलीग्राम संदेश में बगदादी ने पश्चिमी देशों पर हमले का आह्वान भी किया। बगदादी का यह कथित ऑडियो तब आया है, जब इस आतंकी संगठन को इराक और सीरिया के ज्यादातर हिस्सों से खदेड़ा जा चुका है। पिछले साल सितंबर के बाद से आइएस सरगना की यह पहली रिकॉर्डिंग बताई जा रही है। बगदादी को कई बार मृत घोषित किया जा चुका है, लेकिन एक इराकी खुफिया अधिकारी ने मई में बताया कि वह अब भी जिंदा है और सीरिया में रह रहा है। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि यह संदेश कब रिकॉर्ड किया गया। लेकिन, बगदादी सीरिया के उत्तर पूर्वी हिस्से के पुनर्निर्माण के लिए गत सप्ताह सऊदी अरब द्वारा 10 करोड़ डॉलर (लगभग सात सौ करोड़ रुपये) दिए जाने की आलोचना करता दिखाई दिया। हालांकि, ऑडियो की आवाज बगदादी की है या नहीं, अब तक किसी ने इसकी पुष्टि नहीं की है। आइएस सरगना को आखिरी बार जुलाई 2014 में ईराक के दूसरे बड़े शहर मोसुल में सार्वजनिक तौर पर देखा गया था। उसने अमेरिका और रूस को धमकी देते हुए कहा कि जिहादियों ने उनके खिलाफ जबर्दस्त की तैयारी की है। उल्लेखनीय है कि रूस और अमेरिका आइएस के खिलाफ हमलों का समर्थन करते हैं। आइएस ने 2014 में सीरिया और इराक के बड़े हिस्से पर कब्जा कर लिया था और बगदादी को इन इलाकों का खलीफा घोषित कर दिया था। लेकिन, अब वह दोनों ही देशों में ज्यादातर हिस्सों से उसे खदेड़ा जा चुका है।  

Dakhal News

Dakhal News 24 August 2018


स्कॉट मौरिसन

ऑस्ट्रेलिया की सत्तारूढ़ लिबरल पार्टी में बढ़े विरोध के चलते मैल्कम टर्नबुल को आखिरकार प्रधानमंत्री की कुर्सी से हटना पड़ा। उनकी जगह स्कॉट मौरिसन नए प्रधानमंत्री बनाए गए हैं। 50 वर्षीय मौरिसन शुक्रवार को लिबरल पार्टी के अध्यक्ष चुने गए। मौरिसन पिछले दस साल में ऑस्ट्रेलिया के छठे प्रधानमंत्री हैं। उनके चुनाव से हालांकि ऑस्ट्रेलिया में सियासी अनिश्चितता का दौर खत्म होने की संभावना कम ही है। पीएम पद से हटने के बाद टर्नबुल ने कहा कि वह संसद से भी इस्तीफा देंगे। इससे संसद में सरकार का सिर्फ एक सीट से बहुमत खतरे में पड़ सकता है। टर्नबुल के करीबी सहयोगी और वित्त मंत्री रहे मौरिसन ने पार्टी के आतंरिक चुनाव में पूर्व गृहमंत्री पीटर डटन को 40 के मुकाबले 45 मतों से पराजित किया। चुनाव में विदेश मंत्री जूली बिशप भी अध्यक्ष पद की दौड़ में थीं, लेकिन वह पहले दौर में ही बाहर हो गईं। टर्नबुल के नेतृत्व को एक हफ्ते में दूसरी बार चुनौती दी गई। वह इससे पहले हुए चुनाव में मामूली अंतर से जीत गए थे। लेकिन पार्टी के अंदर बढ़े विरोध और कई सांसदों द्वारा नए नेता का चुनाव मतपत्रों से कराने की मांग पर वह गुरुवार को इस होड़ से हट गए। मौरिसन ने पहले 63 वर्षीय टर्नबुल का समर्थन किया था, लेकिन बाद में वह डटन की अपेक्षा ज्यादा उदार नेता के तौर पर उभरे। आव्रजन मामले में डटन के रुख को सख्त माना जाता है। पार्टी के अंदर टर्नबुल का विरोध पिछले हफ्ते उस समय बढ़ गया जब उन्होंने बिजली दरों में कटौती और जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए उत्सर्जन में कमी लाने का प्रस्ताव दिया था। पीएम पद से हटने के बाद टर्नबुल ने ऑस्ट्रेलिया की जनता का आभार जताया और समलैंगिक विवाह की इजाजत समेत अपने कार्यकाल की उपलब्धियों का जिक्र किया।

Dakhal News

Dakhal News 24 August 2018


imran khan pakistan

 22 साल पहले क्रिकेट से राजनीति में आए इमरान खान की नई पारी शुरू हो रही है। शनिवार को उन्होंने एक विशेष कार्यक्रम में देश के 22वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण की। उनके इस शपथ ग्रहण कार्यक्रम में भारत से नवजोत सिंह सिद्धू शामिल हुए। उनके अलावा पाकिस्तान के कई बड़े नेता और इमरान खान की तीसरी पत्नी बुशरा मेनका भी कार्यक्रम में शामिल हुई। शपथ ग्रहण कार्यक्रम में नवजोत सिंह सिद्धू को पाक अधिकृत कश्मीर के राष्ट्रपति के साथ बैठाया गया था। शपथ ग्रहण में इमरान कई बार अटकते नजर आए। इससे पहले शुक्रवार को उन्हें पाकिस्तान का नया प्रधानमंत्री चुन लिया गया। नेशनल असेंबली में एकतरफा चुनाव में उन्होंने वरिष्ठ नेता शाहबाज शरीफ को हरा दिया। पीएम चुने जाने के बाद इमरान खान ने उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई का वादा किया है जिन्होंने देश को लूटा है। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के छोटे भाई और पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के अध्यक्ष शाहबाज की पीएम पद की उम्मीदवारी को लेकर विपक्ष में दरार साफ नजर आई। बिलावल भुट्टो की नेतृत्व वाली पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) ने मतदान में हिस्सा नहीं लिया। उसके 54 सांसद हैं। इस कारण पीएम पद के लिए चुनाव मात्र औपचारिक रह गया। नेशनल असेंबली के स्पीकर असद कैसर ने एलान किया कि पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के चेयरमैन 65 वर्षीय इमरान खान को 176 वोट जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी शाहबाज को मात्र 96 वोट मिले हैं। संसद में अप्रिय स्थिति तब पैदा हुई जब नतीजे के एलान के वक्त विपक्ष के सांसदों ने नव निर्वाचित प्रधानमंत्री इमरान खान के लिए चोर-चोर के नारे लगाने शुरू किए। जेल में बंद नवाज शरीफ के पोस्टर लिए पीएमएल-एन समर्थक नारे लगा रहे थे-वोट को इज्जत दो। सदन में हंगामा होते देख स्पीकर कैसर कार्यवाही 15 मिनट के लिए स्थगित कर दी। दोबारा कार्यवाही शुरू होने पर स्पीकर ने इमरान को सदन को संबोधित करने के लिए कहा। इमरान ने कहा-मैं मेरे देश से वादा करता हूं कि हम तब्दीली लाएंगे, जिसके लिए यह राष्ट्र इंतजार कर रहा है। हमें इस देश में सख्त जवाबदेही तय करनी होगी। जिन्होंने इस देश को लूटा है, मैं वादा करता हूं कि मैं उनके खिलाफ काम करूंगा। मतदान के दौरान इमरान खान को मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट (सात सीट), बलूचिस्तान अवामी पार्टी (5), बलूचिस्तान नेशनल पार्टी (4), पाकिस्तान मुस्लिम लीग (3), ग्रैंड डेमोक्रेटिक एलायंस (3), अवामी मुस्लिम लीग व जमोरी वतन पार्टी (एक-एक सीट) समेत छोटी पार्टियों का समर्थन मिला। इससे पहले शाहबाज समेत पीएमएल-एन के सांसद नेशनल असेंबली में हाथ में काली पट्टी बांधकर आए। 25 जुलाई को हुए आम चुनाव में कथित गड़बड़ी के विरोध में उन्होंने यह कदम उठाया। सत्र शुरू होने से पहले इमरान और शाहबाज ने एक दूसरे से हाथ मिलाया। इस सप्ताह की शुरूआत में स्पीकर और डिप्टी स्पीकर के लिए पीटीआई के उम्मीदवारों को क्रमशः 176 और 183 वोट मिले थे। 25 जुलाई को हुए चुनाव में पीटीआई को 116 सीटें मिली हैं। नौ निर्दलीय पार्टी में शामिल हो जाने से उसकी संख्या बढ़कर 125 पर पहुंच गई। महिलाओं के आरक्षित 60 में से 28 और अल्पसंख्यकों के लिए आरक्षित 10 में से पांच सीटें पीटीआई को मिलीं। इस तरह उसका कुल आंकड़ा 158 पर पहुंच गया। इमरान शनिवार को देश के 22वें पीएम पद की शपथ लेंगे। वर्ष 2008 से पाकिस्तान में यह सतत तीसरी लोकतांत्रिक सरकार होगी। वर्ष 2008 में पीपीपी की सरकार बनी थी। वर्ष 2013 में पीएमएल-एन जीती और नवाज शरीफ पीएम बने। संसद के निचले सदन में इमरान की गठबंधन सरकार को भले ही मामूली बहुमत हासिल हो लेकिन ऊपरी सदन सीनेट में विपक्ष का ही दबदबा है। इससे आने वाले समय में इमरान को खासी मुश्किलें पेश आने वाली हैं। इस बात को पाकिस्तानी मीडिया भी स्वीकार कर रहा है। नई सरकार के समक्ष सबसे पहली और बड़ी चुनौती तंगहाली के हालात से निजात पाने की होगी।  

Dakhal News

Dakhal News 18 August 2018


काबुल में शिया शिक्षण संस्थान पर आतंकी हमले में 48 की मौत

  अफगानिस्तान में अल्पसंख्यक शिया समुदाय के शिक्षण संस्थान पर बुधवार को आतंकी हमले में 48 की मौत हो गई और 67 अन्य घायल हो गए। मरने वालों में ज्यादातर किशोर छात्र-छात्राएं शामिल हैं। इससे आतंकियों ने देश के उत्तरी हिस्से में स्थित सेना की दो चौकियों पर हमला कर 9 पुलिसकर्मियों और 35 सैनिकों को मौत के घाट उतार दिया। राजधानी काबुल के पश्चिम में स्थित शिया अल्पसंख्यक समुदाय के शिक्षण संस्थान के विद्यार्थी अहाते में एक आत्मघाती हमलावर ने खुद को उड़ा लिया। यहां छात्र टेंट लगाकर विश्वविद्यालय की प्रवेश परीक्षा की पढ़ाई कर रहे थे। एक प्रत्यक्षदर्शी सैयद अली ने बताया कि मरने वाले अधिकांश छात्रों के चीथड़े उड़ गए। सिटी हास्पिटल के डॉक्टरों ने बताया कि कई पीड़ित बुरी तरह जल गए हैं। अस्पताल में मौजूद एक अन्य प्रत्यक्षदर्शी अब्दुल खालिक ने बताया कि उनका भाई भी वहां पढ़ता था। विस्फोट में उसकी भी मौत हो गई है। हालांकि अभी तक विस्फोट की जिम्मेदारी तो किसी समूह ने नहीं ली है, लेकिन शिया समुदाय पर किए जा रहे हमलों के इतिहास को देखते हुए लगता है कि इसे इस्लामिक स्टेट (आइएस) ने अंजाम दिया है। तालिबान ने धमाके से इन्कार किया है। इससे पहले बुधवार को ही उत्तरी अफगानिस्तान के बाघलान प्रांत स्थित सैन्य बेस पर किए गए हमले में 9 पुलिसकर्मियों और 35 सैनिकों की मौत हो गई है। बाघलान से सांसद दिलावर अयमाक ने हमले की पुष्टि करते हुए कहा कि एक सैन्य और एक पुलिस चौकी को निशाना बनाया गया था। तालिबान ने हमले की जिम्मेदारी ली है। अफगानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र वरिष्ठ अधिकारी ताडामिची यामामोटा ने लड़ाई बंद करने की अपील की है।

Dakhal News

Dakhal News 16 August 2018


बेहाल केरल,अब तक 73 की मौत

  केरल में लगातार हो रही बारिश से हाल बेहाल हो गए हैं। राज्य में बाढ़ के हालात हैं और नदियों का जलस्तर लगातार बढ़ता जा रहा है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। बारिश के कारण कोच्चि में एयरपोर्ट के बाद मेट्रो सेवा भी बंद कर दी गई है वहीं मुल्लारपेरियार डैम का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य के मुख्यमंत्री पी विजयन से फोन पर बात करते हुए हालात का जायजा लिया है साथ ही मदद का आश्वासन दिया है। इसके अलावा उन्होंने रक्षा मंत्रालय को भी राहत कार्य तेज करने के लिए कहा है। राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर लिखा है कि उन्होंने पीएम मोदी से इस मुद्दे पर बात कर सेना की मदद बढ़ाने की मांग की है। बारिश के कारण कोच्चि शहर में पानी घुस गया है वहीं आलापुजा के कोल्लाकवाडु में अचनकोइल नदी का जलस्तर बढ़ने से गावों में बाढ़ आ गई है। अब तक इस बारिश के कारण राज्य में 73 लोगों के मारे जाने की सूचना है। अकेले बुधवार को 24 लोगों की मौत हुई थी। बता दें कि केरल सदी की सबसे भीषण बाढ़ की चपेट में आ गया है। राज्य के सभी 14 जिलों में रेड अलर्ट घोषित किया गया है। राज्य में इससे पहले 1924 में बाढ़ से ऐसी ही तबाही मची थी। मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने सचिवालय में आपात बैठक की। बैठक में केंद्र से नौसैनिक हवाई अड्डे पर छोटे विमान लैंड कराने की अनुमति मागने का फैसला लिया गया है। कोचीन हवाई अड्डे के प्रवक्ता ने कहा कि लगातार पानी बढ़ने के कारण शनिवार दो बजे दिन तक संचालन निलंबित रहेगा। अधिकारियों ने बुधवार को आने-जाने वाले विमानों को तिरुअनंतपुरम या कोझिकोड डायवर्ट कर दिया। नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने राज्य का आग्रह मानते हुए केरल में अन्य हवाई अड्डों का इस्तेमाल करने की अनुमति दे दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य के मुख्यमंत्री विजयन से बातचीत की है। उन्होंने केरल को हर संभव सहायता मुहैया कराने का भरोसा दिया है। नौसेना की 21 टीमें राहत एवं बचाव कार्य में जुटी हैं। नौसेना की टीम ने बाढ़ में फंसे 81 से ज्यादा लोगों को बचा लिया है। एनडीआरएफ की चार और टीमें भेजी गई हैं। इस दक्षिणी राज्य में एक सप्ताह पहले मौसम का रुख आक्रामक हो गया था। अधिकारियों को खतरनाक स्तर तक भर चुके 35 जलाशयों से पानी छोड़ने के लिए विवश होना पड़ा। बांध खोलने के कारण इसकी नदियों का बहाव तीव्र हो गया। मुख्यमंत्री ने कहा, "राज्य के 35 जलाशयों से पानी छोड़ा जा रहा है। राज्य के कई जिले बाढ़ की चपेट में हैं।" मौसम विभाग ने शनिवार तक राज्य में भारी बारिश होने की चेतावनी दी है। पिछले सप्ताह बारिश और बाढ़ की चपेट में आने से सैकड़ों घर तबाह हो गए। मसाले और कॉफी के लिए मशहूर इस राज्य की फसलें भी तबाह हो गई हैं। रात 2.35 पर मुल्लपेरियार बांध का गेट खोलने के बाद इडुक्की जिले में अधिकारी सतर्कता बरत रहे हैं। इस बांध में पानी 142 फीट का स्तर पार कर गया है। मुख्यमंत्री ने अपने पड़ोसी राज्य तमिलनाडु के अपने समकक्ष के. पलानीस्वामी को पत्र भेजकर इसे 139 फीट पर लाने का आग्रह किया है। मुख्यमंत्री विजयन ने कहा कि डेढ़ लाख लोगों को राहत शिविरों में रखा गया है। राज्य के कई हिस्सों में बिजली आपूर्ति, संचार प्रणाली और पेयजल आपूर्ति बाधित हो गई है। कुझितुरै में भूस्खलन के कारण लंबी दूरी की चार गाड़ियां देरी से रवाना हुई। इसके अलावा कुछ यात्री गाड़ियों पर भी आंशिक प्रभाव पड़ा है। कोल्लम-पुनालुर-सेंगोट्टाइ खंड पर रेल सेवा निलंबित कर दी गई है।  

Dakhal News

Dakhal News 16 August 2018


नवाज शरीफ

पाकिस्तान में पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के परिवार की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं। भ्रष्टाचार के एक मामले में नवाज के छोटे भाई और पीएमएल-एन प्रमुख शाहबाज शरीफ के दामाद इमरान अली यूसुफ को मंगलवार को भगोड़ा घोषित कर दिया गया। पूर्व प्रधानमंत्री शरीफ पहले ही भ्रष्टाचार के मामले में बेटी मरयम और दामाद सफदर के साथ जेल में बंद हैं। भ्रष्टाचार से जुड़े मामलों में पेश नहीं होने पर अदालत उनके दोनों बेटों हसन और हुसैन को भगोड़ा घोषित कर चुकी है। भ्रष्टाचार रोधी संस्था राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) ने शाहबाज को एक हाउसिंग घोटाले में 20 अगस्त को पेश होने के लिए समन जारी कर रखा है। अब इसी संस्था की सिफारिश पर एनएबी कोर्ट ने शाहबाज के दामाद इमरान को भगोड़ा घोषित कर दिया है। इमरान इस समय लंदन में हैं। उन पर पंजाब पावर डेवलपमेंट कंपनी के पूर्व सीईओ इकराम नावेद से 1.2 करोड़ रुपये लेने का आरोप है। पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) से नवाज शब्द हटाने के लिए पेशावर हाई कोर्ट में एक अर्जी दाखिल की गई है। खानजादा अजमल जेब नामक एक वकील ने यह याचिका दाखिल की है। इसमें अदालत से भ्रष्टाचार मामले में नवाज शरीफ को सजा सुनाए जाने की दलील देकर मांग की गई है कि वह चुनाव आयोग को पीएमएल-एन से नवाज नाम हटाने का आदेश दे।  

Dakhal News

Dakhal News 8 August 2018


चेंबूर भारत पेट्रोलियम की रिफाइनरी

  चेंबूर में भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन की रिफाइनरी के हाईड्रो क्रैकर प्लांट में आग लग गई है। 9 फायर टेंडर्स और दो फोम टेंडर्स आग बुझाने के काम में जुटे हुए हैं और हालात नियंत्रण में हैं। इस हादसे में अब तक 21 लोगों के घायल होने की जानकारी सामने आई है। जिसमें एक की हालत गंभीर है।  

Dakhal News

Dakhal News 8 August 2018


india

  रूस अब भारत और ब्राजील के चुनावों को प्रभावित करने वाले काम कर सकता है। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में सोशल मीडिया के विशेषज्ञ ने यह आशंका अमेरिकी सांसदों के समक्ष जाहिर की है। रूस पर अमेरिका के 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में हस्तक्षेप का आरोप है। ब्रिटिश विशेषज्ञ फिलिप एन हॉवर्ड ने यह आशंका अमेरिकी संसद की खुफिया मामलों की समिति के समक्ष पेश होकर जताई है। विशेषज्ञ के अनुसार चुनावों में यह हस्तक्षेप सोशल मीडिया के जरिये हो सकता है। लेकिन उन्होंने यह स्पष्ट नहीं किया कि उसका प्रकार क्या होगा। हॉवर्ड ने कहा कि दोनों ही देशों में स्थिति इसलिए ज्यादा गंभीर होने की आशंका है क्योंकि वहां का मीडिया अपेक्षाकृत कम पेशेवर है। अमेरिका का ज्यादा पेशेवर मीडिया रूस की साजिश से नहीं बच पाया। सीनेटर सूसन कोलिंस के सवाल के जवाब में हॉवर्ड ने उन्हें हंगरी के मीडिया में हस्तक्षेप के तरीकों के बारे में बताया। हॉवर्ड ने कहा कि अमेरिका का मीडिया दुनिया में सबसे ज्यादा पेशेवर है। वह खबर के स्त्रोत पर सबसे ज्यादा गौर करता है। ट्वीट्स आदि पर भी उसकी निर्भरता बहुत कम होती है। लेकिन भारत और ब्राजील जैसे लोकतांत्रिक देशों में हालात खतरनाक हैं। इन देशों के मीडिया संस्थानों को सीखने और खुद को विकसित करने की जरूरत है। तभी वे साजिशों से खुद को सुरक्षित रख पाएंगे।

Dakhal News

Dakhal News 4 August 2018


sushma swaraj

  भारत और कजाखिस्तान ने अपने रक्षा सहयोग को और मजबूत करने पर सहमति जताई है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने शुक्रवार को कजाखिस्तान के अपने समकक्ष कैरात अब्द्राखमानोव से मुलाकात की। प्रतिनिधि स्तर की वार्ता के दौरान दोनों नेताओं के बीच कारोबार, ऊर्जा और सुरक्षा क्षेत्र में आपसी सहयोग बढ़ाने पर सहमति बनी। सुषमा ने प्रधानमंत्री बेकीतिझान सागिनतायेव से भी भेंट की। इस बैठक में कारोबार, निवेश, साझा फिल्म निर्माण, पर्यटन और व्यक्तिगत संपर्क बढ़ाने जैसे मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की गई। उल्लेखनीय है कि कजाखिस्तान मध्य एशिया में भारत का सबसे बड़ा कारोबार और निवेश साझेदार है। सुषमा संसाधन समृद्ध मध्य एशियाई देशों के साथ रणनीतिक साझेदारी मजबूत बनाने के प्रयासों के तहत तीन देशों कजाखिस्तान, किरगिस्तान और उजबेकिस्तान की यात्रा पर हैं। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि 2009 से रणनीतिक साझेदार। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कजाखिस्तान के विदेश मंत्री कैरात अब्द्राखमानोव से मुलाकात की।

Dakhal News

Dakhal News 4 August 2018


मोदी -इमरान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ(पीटीआई) के चेयरमैन इमरान खान से बात की। पाकिस्तान में हुए आम चुनाव के बाद पीएम मोदी ने इमरान खान को फोन कर उन्हें जीत की बधाई दी है। मोदी ने इमरान से कहा, 'मैं आशा करता हूं कि पाकिस्तान में लोकंतत्र की जड़ें और मजबूत होंगी।' बतादें कि पाकिस्तान में हाल ही में हुए चुनाव में इमरान खान की पीटीआई सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। पाक संसद में सबसे पड़ी पार्टी बनकर उभरी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआइ) के अध्यक्ष इमरान खान ने कहा है कि वे 11 अगस्त को प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। रेडियो पाकिस्तान ने खुद इमरान के हवाले से कहा कि वे 11 अगस्त को पदभार संभालेंगे। सोमवार को खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के नवनिर्वाचित पार्टी विधायकों को संबोधित करते हुए पीटीआइ नेता ने कहा कि मैंने राज्य के अगले मुख्यमंत्री का फैसला कर लिया है। अगले 48 घंटों के अंदर उनके नाम का एलान कर दिया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि सिंध प्रांत की गरीबी खत्म करना उनकी सरकार की प्राथमिकताओं में शामिल होगा।  

Dakhal News

Dakhal News 31 July 2018


imran khan

पाकिस्तान में इमरान खान का प्रधानमंत्री बनना लगभग तय हो गया है, लेकिन उनकी पूर्व पत्नी रेहम खान इससे खुश नहीं हैं। चुनाव के बीच में अपनी किताब के जरिए इमरान पर निशाना साधने वाली रेहम का कहना है कि इमरान अब तक पाक अवाम के लिए हीरो थे, लेकिन अब वे आइटम नंबर बनकर रह जाएंगे। रेहम ने इशारों-इशारों में कहा कि इमरान चाहे पीएम की कुर्सी पर बैठे हों, लेकिन उन्हें चलाने वाले दूसरे लोग (आर्मी) हैं। एक इंटरव्यू में रेहम ने कहा, इमरान ज्यादा दिनों तक पीएम नहीं रह पाएंगे। और जब उनकी कुर्सी जाएगी तो इज्जत भी चली जाएगी। बकौल रेहम, इमरान ने इन चुनावों में धर्म के नाम पर वोट मांगे हैं, जबकि निजी जिंदगी में वे जरा भी धार्मिक नहीं हैं। वे सुबह नमाज के लिए नहीं उठते। किसी इस्लामिक मान्यता का पालन नहीं करते हैं। रेहम ने बताया कि 'इमरान की ख्वाहिश शुरू से कप्तान बनने की रही है। वे कभी भी एक सामान्य खिलाड़ी के रूप में टीम ने नहीं रहना चाहते थे। राजनीति में भी यही हुआ। पहले नवाज शरीफ और फिर परवेज मुशर्रफ ने उन्हें सियासत में आने का न्योता दिया था, लेकिन इमरान ने खारिज कर दिया, क्योंकि वे किसी के साथ राजनीति नहीं करना चाहते थे।' 'इसके बाद इमरान ने खुद की पार्टी बनाई। खुद उसके अध्यक्ष बने, चुनाव लड़े और अब आखिरी में वे प्रधानमंत्री बनने जा रहे हैं।' रेहम ने यह भी कहा कि इमरान के भारत में भी कई चाहने वाले हैं। वे भारत आते-जाते रहते हैं, लेकिन चुनाव प्रचार के दौरान उन्होंने भारत विरोधी बात कहीं। पाकिस्तान में जो भारत विरोधी बाते करते है, उसे आसानी से वोट मिल जाते हैं। इमरान के साथ भी यही हुआ। रेहन ने नजर में यह इलेक्शन नहीं, सिलेक्शन है। पाकिस्तानी आर्मी ने इमरान को सपोर्ट किया है। इसलिए वे यहां तक पहुंच सके हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 26 July 2018


पकिस्तान में आम चुनाव , क्वेटा धमाके में कई की मौत

  पाकिस्तान में नई सरकार के लिए मतदान शुरू हो चुका है। देश के करीब साढ़े दस करोड़ मतदाता आज नई सरकार चुनेंगे। इसके लिए देश में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। नवाज शरीफ की पार्टी की तरफ से मैदान में उतरे शाहबाज शरीफ के अलावा बेनजीर भुट्टो की बेटियों ने भी वोट डाल दिया है। इनके अलावा लश्कर-ए-तैयबा के सरगना हाफिज सईद ने भी लाहौर में वोट डाल दिया है। इस बीच बलूचिस्तान के क्वेटा में वोटिंग के दौरान धमाके की सूचना है। प्रारंभिक रूप से मिल रही जानकारी के अनुसार इस धमाके में कई लोगों के मारे जाने की खबर है। वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया रेग्युलेटरी अथॉरिटी ने पाकिस्तान के प्रायवेट टीवी चैनल्स पर चुनाव से जुड़ी कोई भी सामग्री का प्रसारण करने से रोक दिया है। पाक चुनाव : हिंसा का इतना डर, प्रशासन ने पहले ही कर लिया 1000 कफन का इंतजाम चुनाव से पहले कराए गए कई सर्वे के अनुसार इस बार का मुकाबला काफी दिलचस्प और नजदीकी है। क्रिकेटर से नेता बने इमरान खान और भ्रष्टाचार मामले में जेल की सजा काट रहे पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पार्टियां एक-दूसरे को कड़ी टक्कर दे रही हैं। दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो के बेटे बिलावल के नेतृत्व वाली पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) इस मुकाबले में तीसरे स्थान पर पिछड़ती दिख रही है। लेकिन किसी भी दल को बहुमत नहीं मिलने की सूरत में उसकी भूमिका अहम हो सकती है। शाम छह बजे मतदान खत्म होते ही वोटों की गिनती शुरू हो जाएगी। सर्वे संस्था - पीएमएल-एन - पीटीआई (वोट प्रतिशत) गैलप पाकिस्तान - 26 - 25 पल्स कंसल्टेंट - 27 - 30 आईपीओआर (पंजाब) - 51 - 30 बिलावल बन सकते हैं किंगमेकर सर्वे में 29 वर्षीय बिलावल की पार्टी पीपीपी पिछड़ती दिख रही है। पल्स कंसल्टेंट के सर्वे में उसे महज 17 फीसदी वोट मिलते दिख रहे हैं। लेकिन कई विशेषज्ञों का मानना है कि किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिलने पर पीपीपी किंगमेकर बन सकती है। नेशनल असेंबली 342 सदस्यीय है। इनमें से 272 सीटों के लिए सीधे चुनाव हो रहा है। बहुमत के लिए 137 सीटें जीतना जरूरी है। बाकी 70 सीटें महिलाओं और अल्पसंख्यकों के लिए आरक्षित हैं। इन सीटों का आवंटन चुनाव में दलों को मिलने वाले वोटिंग प्रतिशत के आधार पर होता है। 2013 का आम चुनाव पीएमएल-एन - 126 पीपीपी - 31 पीटीआई - 27 पाकिस्तान में ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी दल ने सत्ता में पांच साल का कार्यकाल पूरा किया। 2013 में शरीफ की पार्टी पीएमएल-एन सत्ता में आई थी और उसने अपना कार्यकाल पूरा किया।  

Dakhal News

Dakhal News 25 July 2018


palistan

पाकिस्तान की प्रमुख राजनीतिक पार्टियों में शामिल पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के प्रमुख इमरान खान ने अपनी तीसरी शादी को लेकर बड़ा खुलासा किया है। इमरान ने स्वीकार किया है कि बुशरा मेनका से शादी करना उनके जीवन में सबसे अनोखा समय रहा, जबकि रेहम से दूसरी शादी करना जीवन की सबसे बड़ी गलती थी। 25 जुलाई को पाकिस्तान में चुनाव है, जिसके प्रचार में इमरान खान इन दिनों काफी व्यस्त हैं। हाल ही में उन्होंने अपनी तीसरी पत्नी बुशरा मेनका, जो एक आध्यात्मिक मार्गदर्शक है, को लेकर कई बातें स्पष्ट की हैं। उन्होंने कहा-"शादी तक मैंने बुशरा का चेहरा तक नहीं देखा था। इसके बाद भी न उन्होंने और न ही मैंने कोई शिकायत की। मेरी ओर से दिया गया शादी का प्रस्ताव उन्होंने सहज स्वीकार कर लिया था। शादी के बाद उन्होंने अपना चेहरा दिखाया था। आज हम दोनों ही बहुत खुश हैं।" इमरान ने अपनी दूसरी पत्नी रेहम खान को लेकर खुलासे किए। उन्होंने कहा, "वह झगड़ालू प्रवृत्ति की थीं। शादी के पूरे 10 महीने काफी मुश्किलों में बीते। आखिरकार मुझे तलाक देना पड़ा।" मालूम हो, इमरान ने पहला निकाह 16 मई 1995 को ब्रिटेन की जेमिमा गोल्डस्मिथ से किया था। जेमिमा इस्लामिक और पाकिस्तानी परिवेश में नहीं ढल सकीं, जिस पर उन्हें 9 साल बाद 2004 में तलाक दे दिया गया। पहले निकाह से उन्हें दो बेटे हैं। इसके बाद उन्होंने 2015 में बीबीसी की पत्रकार रेहम खान से निकाह किया, जो ज्यादा वक्त नहीं टिक सका और उसी साल तलाक हो गया। यह मामला काफी सुर्खियों में आया। फिर तीसरा निकाह धार्मिक मार्गदर्शक बुशरा मेनका से किया। इमरान ने एक साक्षात्कार में कहा, "दूसरी पत्नी रेहम खान से निकाह के दस महीने में कभी नहीं भूल सकता। वह समय मेरे लिए तूफानी महीनों में से था। मैंने रेहम को तलाक दे दिया। भले ही रेहम ने मुझ पर कई बड़े आरोप लगाए हैं। फिर भी हममें कोई मनमुटाव नहीं है। आज बहुत अच्छे दोस्त हैं।" मालूम हो, रेहम ने इमरान पर कई संगीन आरोप लगाए थे और मुकदमा चलाने की धमकी भी दी थी। इमरान की पूर्व पत्नी रेहम खान की हाल ही में एक किताब सामने आई है। इसमें उन्होंने इमरान की कई बुरी आदतों और बातों का खुलासा किया है। इसमें लिखा है, इमरान का जीवन ड्रग्स से भरा है। उनके कई नाजायज बच्चे भी हैं, जिनमें से कुछ भारत में भी हैं। सूत्रों के अनुसार, रेहम की किताब ऐसे समय आई है, जब पाकिस्तान में चुनाव प्रचार चल रहा है। इसका इसर इमरान की राजनीतिक छवि पर पड़ सकता है। मामले में इमरान की ओर से कई जवाब नहीं आया है।  

Dakhal News

Dakhal News 23 July 2018


अमेरिका और ईरान

अमेरिका और ईरान के बीच तनातनी बढ़ गई है। ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी की चेतावनी के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान को आगाह किया है कि अमेरिका को धमकी देना ईरान को भारी पड़ सकता है। ट्रंप ने रविवार देर रात ट्वीट किया, "अमेरिका को धमकाने की कभी कोशिश मत करना। वरना, इसके नतीजे घातक होंगे। हम वह देश नहीं रहे जो हिंसा भड़काने वाले शब्दों के साथ खड़ा रहे। सावधान रहो।" ट्रंप का यह ट्वीट रूहानी के उस बयान का जवाब माना जा रहा है जिसमें उन्होंने अमेरिका को चेतावनी देते हुए कहा था, "तेहरान खुद युद्ध की शुरुआत नहीं करेगा लेकिन अगर ऐसा हुआ तो वह पीछे भी नहीं हटेगा।" ट्रंप को झूठा बताते हुए उन्होंने कहा था, "हमारे दुश्मनों को समझ लेना चाहिए कि हमारे साथ शांति बनाए रखना जितना अच्छा है, युद्ध करना उतना ही घातक होगा।" ईरान के रिवोल्यूशनरी गार्ड्स के वरिष्ठ कमांडर ने भी ट्रंप की धमकियों को तेहरान के खिलाफ "मनोवैज्ञानिक युद्ध" बताया है। दोनों देशों के बीच ताजा तनातनी बीते मई में ट्रंप के उस फैसले के बाद शुरू हुई जिसमें उन्होंने वर्ष 2015 में ईरान के साथ हुए परमाणु समझौते से अमेरिका के बाहर निकलने का एलान कर दिया था। ट्रंप प्रशासन ने इसके बाद ईरान पर कई प्रतिबंध भी लगा दिए। ये प्रतिबंध अगस्त से लागू हो जाएंगे। अमेरिका अब ईरान पर नई शर्तों के साथ परमाणु समझौता करने का दवाब डाल रहा है।

Dakhal News

Dakhal News 23 July 2018


ह्वाइट हाउस खरीदेगा दो एयरफोर्स वन विमान

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने अलग अंदाज के लिए खासे मशहूर हैं। इसी के तहत उन्होंने राष्ट्रपति के आधिकारिक विमान एयर फोर्स वन को भी बदलने की तैयारी कर ली है। ट्रंप दो नए एयर फोर्स वन विमान खरीदने की तैयारी में हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति भवन ह्वाइट हाउस ने गुरुवार को कहा कि वह 390 करोड़ डॉलर (करीब 27 हजार करोड़ रुपए) में दो एयरफोर्स वन विमान खरीदेगा। अमेरिका की विमान बनाने वाली कंपनी बोइंग से ये विमान खरीदे जाएंगे। फिलहाल जिस विमान में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप सफर करते हैं, वह 31 वर्ष पुराना हो गया है। नए विमान 2024 तक मिलने की उम्मीद है। नए एयरफोर्स वन विमानों में देशभक्ति का रंग नजर आएगा। जानकारी के अनुसार नए विमार लाल, सफेद और नीले रंग में रंगे होंगे जो अमेरिकी राष्ट्रध्वज में नजर आते हैं। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी एक बयान में कहा कि पारंपरिक नीले सफेद रंग में नजर आने वाला एयरफोर्स वन अब बदलेगा और लाल, सफेद, नीले रंग की स्कीम में नजर आएगा। इसके बाद यह दूनिया के शीर्ष पर होगा।

Dakhal News

Dakhal News 20 July 2018


ह्वाइट हाउस खरीदेगा दो एयरफोर्स वन विमान

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने अलग अंदाज के लिए खासे मशहूर हैं। इसी के तहत उन्होंने राष्ट्रपति के आधिकारिक विमान एयर फोर्स वन को भी बदलने की तैयारी कर ली है। ट्रंप दो नए एयर फोर्स वन विमान खरीदने की तैयारी में हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति भवन ह्वाइट हाउस ने गुरुवार को कहा कि वह 390 करोड़ डॉलर (करीब 27 हजार करोड़ रुपए) में दो एयरफोर्स वन विमान खरीदेगा। अमेरिका की विमान बनाने वाली कंपनी बोइंग से ये विमान खरीदे जाएंगे। फिलहाल जिस विमान में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप सफर करते हैं, वह 31 वर्ष पुराना हो गया है। नए विमान 2024 तक मिलने की उम्मीद है। नए एयरफोर्स वन विमानों में देशभक्ति का रंग नजर आएगा। जानकारी के अनुसार नए विमार लाल, सफेद और नीले रंग में रंगे होंगे जो अमेरिकी राष्ट्रध्वज में नजर आते हैं। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी एक बयान में कहा कि पारंपरिक नीले सफेद रंग में नजर आने वाला एयरफोर्स वन अब बदलेगा और लाल, सफेद, नीले रंग की स्कीम में नजर आएगा। इसके बाद यह दूनिया के शीर्ष पर होगा।

Dakhal News

Dakhal News 20 July 2018


nawaz sharif

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने अपने समर्थकों से अपनी बीमार पत्नी के लिए दुआ करने की भावुक अपील की है। पहले से रिकॉर्ड एक ऑडियो संदेश में नवाज ने कहा है कि जब तक मैं जेल में बंद हूं, हर व्यक्ति से अनुरोध करता हूं कि वे मेरी बीमार पत्नी की सेहत के लिए दुआ करें। उल्लेखनीय है कि कुलसुम नवाज का लंदन के एक अस्पताल में गले के कैंसर का इलाज चल रहा है। इसी बीच दिल का दौरा पड़ने के बाद से उनको जीवन रक्षक उपकरणों पर रखा जा रहा है। उनको गंभीर हालत में छोड़कर ही नवाज पाकिस्तान लौटे हैं। मरियम को देश की बेटी बताते हुए शरीफ ने अपने संदेश में कहा है कि मेरे साथ उसे भी जेल में डाल दिया गया है। लेकिन, मेरे खिलाफ साजिश रच रहे लोग नहीं जानते हैं कि किसी भी जेल की दीवार वोटरों के साथ हमारा रिश्ता तोड़ नहीं सकती है।

Dakhal News

Dakhal News 17 July 2018


 खलीफा बिन सलमान अल-खलीफा- सुषमा

बेहरीन में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने रविवार को बहरीन के प्रधानमंत्री खलीफा बिन सलमान अल-खलीफा से मुलाकात की। मुलाकात में दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों के महत्व पर चर्चा हुई। इसे और मजबूत बनाने के तरीकों पर वार्ता हुई। साथ ही सुषमा ने बहरीन के अपने समकक्ष के साथ आपसी सहयोग के लिए बने आयोग की दूसरी बैठक की अध्यक्षता की। वह बहरीन के दो दिवसीय दौरे पर आई हैं। सुषमा ने अपने दौरे की शुरुआत बहरीन के विदेश मंत्री शेख खालिद बिन अहमद अल-खलीफा से मुलाकात के साथ की। शेख खालिद को भारत का शुभचिंतक माना जाता है। इसके बाद दोनों नेताओं ने संयुक्त आयोग की बैठक में हिस्सा लिया। इससे पहले फरवरी 2015 में संयुक्त आयोग की बैठक नई दिल्ली में हुई थी। शेख खालिद ने बहरीन के विकास में भारतीय समुदाय के सहयोग की प्रशंसा की। करीब चार लाख भारतीय बहरीन में रहकर वहां नौकरी और कारोबार करते हैं। बहरीन की कुल आबादी में भारतीयों की हिस्सेदारी एक चौथाई की है। अपने दौरे में सुषमा मानामा के राष्ट्रीय पुस्तकालय को "भारत एक परिचय" पुस्तकों का एक संग्रह भेंट किया। इससे बहरीन के लोगों को भारत के बारे में बेहतर तरीके से जानने का मौका मिलेगा।  

Dakhal News

Dakhal News 16 July 2018


afganistan

वर्ष 2018 के पहले छह महीनों में अफगानिस्तान में जारी संघर्ष और आतंकी हमलों में रिकॉर्ड 1,692 आम नागरिकों की मौत हुई है। इन हमलों में 3,430 नागरिक घायल हुए। अफगानिस्तान में कार्यरत संयुक्त राष्ट्र सहायता मिशन (यूएनएएमए) ने रविवार को ये ताजा आंकड़े जारी किए हैं। शिन्हुआ न्यूज एजेंसी ने यूएनएएमए के हवाले से बताया कि ये आंकड़े इस साल एक जनवरी से 30 जून के बीच के हैं। पिछले 10 वर्षों की तुलना में इस साल पहले छह महीनों में ही सबसे अधिक आम नागरिकों की जान चली गई। रिपोर्ट के अनुसार, नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए हमने 2009 से इस संबंध में निगरानी रखने की व्यवस्था की थी। मौत की पहली बड़ी वजह इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस(आइईडी) का इस्तेमाल है। इस विस्फोटक का इस्तेमाल आतंकी आत्मघाती हमले सहित अन्य हिंसक गतिविधियों में करते हैं। आइईडी के प्रयोग से करीब आधे आम नागरिकों की मौत हुई है। मौत की दूसरी बड़ी वजह सेना और आतंकियों की बीच जारी संघर्ष है। इनमें हवाई हमले और आमने-सामने की लड़ाई शामिल है। 67 फीसद नागरिकों की मौत तालिबान व अन्य कट्टरपंथी संगठनों के हमले में गई। वहीं, 20 फीसद की जान सेना के हमले में गई। बाकी बचे 13 प्रतिशत की मौत अन्य कारणों से हुई है।

Dakhal News

Dakhal News 15 July 2018


 ट्रेन मार्शल,रोकेंगे आतंकी हमले

फ्रांसीसी पुलिस की सामरिक इकाई नेशनल जान्डॉर्मरी इंटरवेंशन ग्रुप देशभर में आतंकवादी हमलों को रोकने के लिए ट्रेनों में 'ट्रेन मार्शल' नाम से सशस्त्र अंडरकवर एजेंट तैनात कर रहा है। अधिकारियों ने बताया कि यह 'ट्रेन मार्शल' समूह यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए ट्रेनों में रोज सफर करेंगे और खतरे का स्तर देखते हुए अपने कार्यक्रमों में बदलाव करेंगे। फ्रांस के राष्ट्रीय जान्डॉर्मरी कमांडर कर्नल घिस्लेन रेटी ने ऑपरेशन की शुरुआत की घोषणा की। उन्होंने कहा कि इन गुप्त एजेंटों का लक्ष्य लोगों को सुरक्षा के प्रति आश्वस्त करना है। उन्होंने कहा कि ये एजेंट्स यात्रियों के साथ घुल-मिल जाएंगे। उनके साथ सीट पर बैठकर यात्रा करेंगे और सिर्फ आतंकी हमले की स्थिति में ही हस्तक्षेप करेंगे। जान्डॉर्मरी कमांडर ने कहा कि साल 2015 में एम्स्टर्डम से पेरिस तक के सफर पर निकली ट्रेन पर किया गया असफल हमला, इस ऑपरेशन को लॉन्च करने के लिए प्रेरणा बना। उस घटना में 25 वर्षीय मोरक्कन अयूब अल खजानी ने एक कलशेशिकोव राइफल, एक स्वचालित पिस्तौल और एक चाकू लेकर हमला कर दिया था। ट्रेन में काफी संख्या में लोगों की मौत हो जाती अगर उसमें सवार तीन अमेरिकियों, एक ब्रिटिश और एक फ्रांसीसी नागरिक ने हमलावर को काबू में करने के लिए जान की बाजी नहीं लगाई होती। हालांकि, इससे पहले कि हमलावर को काबू में किया जा सकता, तीन लोग घायल हो गए थे। अधिकारियों ने बताया कि साल 2017 के अंत में फ्रांसीसी राष्ट्रीय रेलवे कंपनी (एसएनसीएफ) के वेन्यू में ट्रेन मार्शल के ऑपरेशन का परीक्षण किया गया था। यह यूएस फेडरल एयर मार्शल सर्विस (एफएएमएस) से प्रेरित था, जिसे 1961 में बनाया गया था। सशस्त्र एफएएमएस एजेंट अमेरिकी वाणिज्यिक उड़ानों पर गुप्त यात्रा करते हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 10 July 2018


jammu kashmir

सुरक्षाबलों को दक्षिण कश्मीर के शोपियां के कुमदलान में 5-6 आतंकियों के छिपे होने का शक है। सुरक्षाबलों ने आतंकियों को चारों तरफ से घेरा। जम्मू-कश्मीर के शोपियां में मंगलवार की सुबह सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी है। इस मुठभेड़ में तीन आतंकियों के मारे जाने की खबर है, वहीं सुरक्षाबलों के दो जवान घायल हुए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सुरक्षाबलों को दो आतंकियों के शव मिले हैं। सुरक्षाबलों को दक्षिण कश्मीर के शोपियां के कुमदलान में 5-6 आतंकियों के छिपे होने का शक है। सुरक्षाबलों ने आतंकियों को चारों तरफ से घेर लिया है। मिली जानकारी के अनुसार, मंगलवार की सुबह सेना की 34 आरआर के जवानों के साथ मिलकर सीआरपीएफ और राज्य पुलिस के विशेष अभियान दल एसओजी के जवानों ने कुंडलन में आतंकियों के छिपे होने की सूचना पर एक तलाशी अभियान चलाया। गांव में तलाशी लेते हुए जवान जैसे ही आगे बढ़े, एक मकान में छिपे आतंकियों ने उन पर फायरिंग कर दी। आतंकियों ने जवानों पर पहले राइफल ग्रेनेड दागा और उसके बाद उन्होंने अपने स्वचालित हथियारों से फायरिंग की। जवानों ने भी अपनी पोजीशन ली और जवाबी फायर किया। इसके बाद वहां मुठभेड़ शुरू हो गई जिसमें एक जेसीओ समेत दो सैन्यकर्मी घायल हो गए। हालांकि मकान में छिपे आतंकियों की संख्या की तत्काल पुष्टि नहीं हो पाई है। लेकिन संबधित अधिकारियों के मुताबिक, आतंकियों की संख्या पांच हो सकती है। संयुक्त सुरक्षा बलों की घेराबंदी और फायरिंग के बाद आतंकियों की ओर से भी फायरिंग की गई। जेसीओ समेत दो सैन्यकर्मी आतंकियों के साथ मुठभेड़ में गंभीर रुप से घायल हो गए। फिलहाल, दोनों का सेना के 92बेस अस्पताल में उपचार किया जा रहा है। इस बीच, मुठभेड़स्थल पर जमा हुई आतंकियों की समर्थक भीड़ व पुलिस के बीच हिंसक झड़पें भी शुरू हो गई हैं। मुठभेड़ शुरू होते ही बड़ी संख्या में शरारती तत्व भड़काऊ नारेबाजी करते हुए मुठभेड़स्थल पर जमा हो गए। उन्होंने आतंकरोधी अभियान में रुकावट डालते हुए सुरक्षाबलों पर पथराव करते हुए घेराबंदी तोड़ने का प्रयास भी किया। इस पर वहां मौजूद पुलिस के जवानों ने उन्हें खदेड़ने के लिए आंसू गैस और लाठियों का सहारा लिया। इसके बाद वहां हिंसक झड़पें भी शुरू हो गई। संबधित अधिकारियों के मुताबिक, पथराव के बावजूद सुरक्षाबलों ने आतंकियों को मार गिराने का अपना अभियान जारी रखा हुआ है।

Dakhal News

Dakhal News 10 July 2018


भारत-चीन के बीच शांति के लिए बनी सहमति

सिलीगुड़ी में  चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी का प्रतिनिधिमंडल के साथ यहां सुकना स्थित आर्मी त्रिशक्ति कोर में बुधवार को हुई बैठक में भारत-चीन सीमा पर शांति व भाईचारा कायम रखने पर सहमति बनी। इसके पूर्व सिलीगुड़ी (पश्चिम बंगाल) के सुकना स्थित त्रिशक्ति कोर में चीनी प्रतिनिधिमंडल का पारंपरिक ढंग से भव्य स्वागत किया गया। इसके बाद लेफ्टिनेंट जनरल प्रदीप एम बाली के नेतृत्व में उच्च स्तरीय बैठक हुई। बैठक में दोनों पक्षों ने उम्मीद जताई कि यह वार्ता सीमा पर शांति बनाए रखने में महत्वपूर्ण योगदान देगी। यह वार्ता "विश्वास निर्माण" की पहल का हिस्सा है, जो कि विभिन्ना स्तरों पर सीनियर कमांडरों के बीच हो रही है। पिछली वार्ता पूर्वी कमान मुख्यालय कोलकाता में फरवरी, 2017 में हुई थी। चीनी सेना का प्रतिनिधिमंडल गुरुवार को कोलकाता के लिए रवाना होगा। चीनी सेना के प्रतिनिधिमंडल में लेफ्टिनेंट जनरल ल्यू ज्याओ भी शामिल हैं।

Dakhal News

Dakhal News 5 July 2018


डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन

  ईरान से कच्चे तेल का आयात कम करने वाले देशों की मदद करने के लिए अमेरिका तैयार है। लेकिन वह भारत और टर्की जैसे देशों को ईरान से तेल आयात की छूट देने को तैयार नहीं है। यह जानकारी डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने दी। भारत के लिए ईरान तीसरा सबसे बड़ा कच्चा तेल सप्लायर देश है। अप्रैल 2017 से जनवरी 2018 के बीच दस ईरान से 184 लाख टन कच्चे तेल का आयात किया गया। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान के साथ परमाणु समझौता रद करके दोबारा प्रतिबंध लगा दिए थे। ये प्रतिबंध ईरान के परमाणु कार्यक्रम की वजह से लगाए गए हैं। अमेरिका ने विदेशी कंपनियों को ईरान की कंपनियों के साथ कारोबार बंद करने के लिए 180 दिन तक का समय दिया है। अब भारत और चीन समेत सभी देशों पर ईरान से तेल आयात चार नवंबर तक बंद करने के लिए दबाव डाल रहा है। विदेश विभाग के अधीन पॉलिसी प्लानिंग के डायरेक्टर ब्रायन हुक ने कहा कि हम किसी को भी छूट देने पर विचार नहीं कर रहे हैं क्योंकि इससे ईरान पर दबाव कम हो जाएगा।  

Dakhal News

Dakhal News 4 July 2018


चीनी लेजर गन आधा मील की दूरी से आग में जला देगी

  चीन में एक कंपनी ने "लेजर एके -47" का उत्पादन करने का दावा किया है। कंपनी का कहना है कि उसकी इस बंदूक से आधे मील दूर एक सेकंड से भी कम समय में किसी व्यक्ति को जलाया जा सकता है। हालांकि, कंपनी के इस दावे पर विशेषज्ञ संदेह जाहिर कर रहे हैं। ZKZM 500 नाम के इस हथियार के बारे में साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट में प्रकाशित किया गया है। इसमें दावा किया गया है यह हथियार राइफल के आकार और वजन के बराबर का है। यह सैकड़ों शॉट्स को फायर करने में सक्षम है, जो इंसानी त्वचा को तत्काल राख में बदल देती है। शोधकर्ताओं में से एक ने कहा कि इससे होने वाला दर्द सहनशक्ति से परे होगा। हालांकि, इस हथियार को लेकर शोधकर्ताओं के जो संशय हैं, वे अपनी जगह पर सही हैं। पहला सरल तथ्य यह है कि इस हथियार के बारे में सिर्फ जानकारी दी गई है, इसको प्रदर्शित नहीं किया गया है। दूसरा यह है कि हथियार के बारे में जो दावे किए जा रहे हैं, वह भौतिकी के सिद्धांतों से मिलते नहीं हैं। सबसे पहली वजह बिजली की समस्या की है। अपेक्षाकृत कम शक्ति की लेजर आंखों को आसानी से नुकसान पहुंचा सकती है, क्योंकि हमारी आंखें पृथ्वी पर विकसित सबसे संवेदनशील ऑप्टिकल उपकरणों में से हैं। मगर, ऐसी लेजर एक गुब्बारे को फोड़ने में भी असमर्थ साबित हो सकता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि आंखों को नुकसान इसलिए होता क्योंकि वे प्रकाश-संवेदनशील माध्यम पर प्रकाश के ज्यादा होने की वजह से होता है। वहीं, फिजिकल बॉडी (चाहे वह मानव शरीर हो या मिसाइल) का विनाश गर्मी के कारण होता है। बड़े पैमाने पर लेजर हथियार प्रणालियों से जरूरत भर की गर्मी पैदा करने के लिए जिससे क्षति हो सके, काफी शक्तिशाली बैटरियों की जरूरत होगी। आधा मील दूर तुरंत एक व्यक्ति को जलाने के लिए यह काफी बड़ी होनी चाहिए। लेख में कहा गया है कि बंदूक में रिचार्जेबल लिथियम-आयन बैटरियां लगाई गई हैं। सिद्धांत रूप में यह बैट्री आपके फोन में लगी बैट्री की तरह ही है। इसके साथ ही यह कहा गया है कि यह दो-सेकंड वाले एक हजार शॉट्स चला सकती है। यानी दो हजार सेकंड तक चल सकती है, जिसका अर्थ है कि यह आधे घंटे काम कर सकती है। एयरबोर्न और विहिकल सिस्टम्स के द्वारा परीक्षण की गई इस परिमाण का एक एकल लेजर "शॉट" के लिए कई किलोवाट ऊर्जा की जरूरत होगी। फिर भी ये गंभीर क्षति पहुंचाने में कारगर नहीं होंगी। यही कारण है कि जो लोग लेजर को हथियार के तौर पर विकसित कर रहे थे, उन्होंने इसे छोड़ दिया। गोली की तुलना में लेजर जब आगे की ओर गति करते हैं, तो वे फैलते जाते हैं। लिहाजा, वे कमजोर हो जाते हैं और उनमें इतनी ऊर्जा नहीं रहती कि वे 800 मीटर की दूरी से किसी फिजिकल बॉडी को जला सकें। हालांकि, इसमें कोई संदेह नहीं है कि पृथ्वी से अंतरिक्ष तक जाने वाले और अंतरिक्ष से धरती तक आने वाले लेजर हैं। मगर, वे कुछ फोटॉन को ही गंतव्य पर पहुंचा सकती हैं और उन्हें सिग्नल के रूप में ही समझना चाहिए।  

Dakhal News

Dakhal News 2 July 2018


पाकिस्तान ने भारत को सौंपी ,जेलों में बंद 471 कैदियों की सूची

  पकिस्तान जेलों में बंद 471 कैदियों की सूची रविवार को पड़ोसी देश ने भारतीय उच्चायुक्त को सौंप दी है। इसमें 418 मछुआरों के अलावा 53 ऐसी कैदी शामिल हैं, जो अवैध तरीके से पाकिस्तानी जल सीमा लांघने के चलते बंदी बना लिए गए थे। पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि दोनों देशों के बीच 21 मई 2008 को हुए समझौते के तहत यह सूची जारी की गई है। गौरतलब है कि समझौते के तहत साल में दो बार यानी पहली जनवरी और पहली जुलाई को दोनों ही देशों को बंदी बनाए गए नागरिकों की सूची एक-दूसरे से साझा करनी होती है। बयान में उम्मीद जताई गई है कि भारत भी जल्द ही पाकिस्तानी उच्चायोग को भारतीय जेलों में बंद कैदियों की सूची सौंप देगा।  

Dakhal News

Dakhal News 2 July 2018


आव्रजन नीति के खिलाफ अमेरिका में बड़ा प्रदर्शन

  वॉशिंगटन में ट्रंप प्रशासन की नई आव्रजन नीति के खिलाफ अमेरिका में  बड़ा विरोध प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन के दौरान भारतीय मूल की सांसद प्रमिला जयपाल समेत करीब 600 महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया गया। बाद में हालांकि उन्हें छोड़ दिया गया। अमेरिकी सीमाओं पर बिना दस्तावेज पकड़े जाने वाले अप्रवासी परिवारों से बच्चों को अलग करने वाली इस नीति का देश में भारी विरोध हो रहा है। इस नीति के चलते करीब दो हजार बच्चों को उनके माता-पिता से अलग कर दिया गया। इस नीति के खिलाफ अमेरिका के 17 राज्य कोर्ट में मुकदमा भी दायर कर चुके हैं। कैपिटल हिल पुलिस के अनुसार, महिलाओं को अवैध रूप से प्रदर्शन करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। उन्हें उस समय गिरफ्तार किया गया जब वे अमेरिकी सीनेट की हार्ट बिल्डिंग के पास धरने पर बैठी थीं। इससे पहले इन महिलाओं ने राजधानी वॉशिंगटन की सड़कों पर विरोध मार्च निकाला। मार्च में शामिल प्रमिला जयपाल ने कहा, "हम डोनाल्ड ट्रंप और उनके प्रशासन की उस अमानवीय नीति का विरोध कर रहे हैं जो शरण मांगने वाले परिवारों को अलग कर रही है।" प्रमिला अमेरिकी संसद के निचले सदन प्रतिनिधि सभा की पहली भारतवंशी महिला सांसद हैं। प्रमिला ने किया जेल का दौराप्रमिला संसद की पहली सदस्य हैं जिन्होंने एक संघीय जेल का दौरा किया। इस जेल में शरण मांगने वाले लोगों को बच्चों से अलग करके रखा गया है। यहां रखे गए लोगों ने प्रमिला को अपनी आपबीती सुनाई।  

Dakhal News

Dakhal News 30 June 2018


जम्मू-कश्मीर

  जम्मू-कश्मीर में लगातार हो रही बारिश के कारण झेलम नदी खतरे के निशान से ऊपर बहने लगी है। लगातार हो रही बारिश के कारण राज्य में बाढ़ से हालात पैदा हो गए हैं। प्रशासन ने इसे देखते हुए सभी स्कूलों की छुट्टी घोषित कर दी है वहीं स्थिति को देखते हुए राज्यपाल ने आपात बैठक कर हालात का जायजा लिया है। वहीं तवी नदी में पानी बढ़ने से यहां 6 लोग फंस गए जिन्हें स्टेट डिजास्टर रिस्पॉन्स टीम ने बचाया। जानकारी के अनुसार राज्य बाढ़ नियंत्रण अधिकारियों ने कहा है कि झेलम का जल स्तर मुंशी बाग के करीब खतरे के निशान से ऊपर पहुंच गया है। इसे देखते हुए बाढ़ का अलर्ट जारी कर दिया है। बता दें कि राज्य में दो दिनों से लगातार हो रही मुसलाधार बारिश के चलते सभी नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। वहीं इसके कारण शुक्रवार को अमरनाथ यात्रा भी रोकनी पड़ी थी। नदियों के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए अधिकारी अलर्ट हो गए हैं और बाढ़ के हालात से निपटने की तैयारियां कर ली गई हैं।

Dakhal News

Dakhal News 30 June 2018


pakistan

आतंकियों की पनाहगाह कहे जाने वाले पाकिस्तान ने फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) को 26 सूत्री समग्र कार्रवाई योजना सौंपी है। इस्लामाबाद को डर है कि एफएटीएफ उसे काली सूची में डाल देगा। पाक की योजना में मुंबई आतंकी हमलों के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के जमात उद-दावा और उससे जुड़े संगठनों सहित अन्य आतंकी संगठनों के चंदे पर रोक लगाने के कदम शामिल हैं। पेरिस में मंगलवार को एफएटीएफ का पूर्ण सत्र शुरू हुआ है। इस सत्र में 15 माह के विस्तार वाली पाकिस्तान की 26 सूत्री कार्रवाई योजना पर विचार किया जाएगा। पाकिस्तान की स्थिति पर शुक्रवार को औपचारिक घोषणा होने की उम्मीद है। पाकिस्तान अभी एफएटीएफ की ग्रे लिस्ट में शामिल है। उसे एफएटीएफ द्वारा मनी लांड्रिंग विरोधी और आतंकी फंडिंग नियमों का पालन नहीं करने वाले देशों की सूची में शामिल किए जाने का डर सता रहा है। अधिकारियों को भय है कि इस सूची में शामिल होने से देश की अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचेगा। देश की अर्थव्यवस्था पहले से ही दबाव में है। एफएटीएफ एक अंतर-सरकारी निकाय है। मनी लांड्रिंग, आतंकी फंडिंग और अंतरराष्ट्रीय वित्तीय प्रणाली की एकजुटता से संबंधित अन्य खतरों से मुकाबले के लिए 1989 में इसकी स्थापना की गई थी। सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान को प्लान में दिए गए अपने पहले लक्ष्य को अगले साल जनवरी तक पूरा करना है। सभी 26 कार्रवाई सितंबर 2019 तक पूरी करनी है। फरवरी 2018 में एफएटीएफ ने पाकिस्तान को निगरानी सूची में रखने को मंजूरी दी थी। अंतरराष्ट्रीय सहयोग समीक्षा समूह (आइसीआरजी) के तहत निगरानी के लिए रखे जाने को ग्रे लिस्ट के रूप में जाना जाता है। यदि एफएटीएफ पाकिस्तान की 26 सूत्री कार्रवाई योजना को मंजूर करता है तो वह औपचारिक रूप से ग्रे लिस्ट में रखा जाएगा। ठुकराए जाने की स्थिति में पाकिस्तान को एफएटीएफ के पब्लिक स्टेटमेंट में रखा जाएगा जिसे काली सूची कहा जाता है।

Dakhal News

Dakhal News 28 June 2018


सामने आया सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो , दिखा सेना का पराक्रम

गुलाम कश्मीर में स्थित आतंकी शिविरों और लांचिंग पैड पर भारतीय सेना की बहुचर्चित सर्जिकल स्ट्राइक का बुधवार को एक और सुबूत सामने आया है। यह सुबूत एक वीडियो फुटेज के रूप में है। इस फुटेज में भारतीय जवान पाकिस्तान क्षेत्र में दाखिल होकर आतंकी ठिकानों पर हमला करते नजर आ रहे हैं। सर्जिकल स्ट्राइक का पाकिस्तान और आतंकी संगठनों ने हमेशा खंडन किया है, लेकिन 21 माह बाद अब वीडियो फुटेज के सामने आने के बाद एक बार फिर स्पष्ट हो गया है कि भारतीय जवानों ने दुश्मन को उसके घर में घुसकर मजा चखाया था। भारतीय सेना की चार और नौवीं वाहिनी से संबंधित पैरा कमांडो दस्ते ने 28 और 29 सितंबर 2016 की दरमियानी रात को उत्तरी कश्मीर में एलओसी पार कर गुलाम कश्मीर के दो से तीन किलोमीटर अंदर के इलाके में जाकर आतंकियों के सात लांचिग पैड को तबाह किया था। इस कार्रवाई में कई आतंकी सरगना मारे गए थे। पाकिस्तानी सेना को भी इसमें नुकसान उठाना पड़ा था। भारतीय सेना ने यह कार्रवाई 18 सितंबर 2016 को उड़ी स्थित सैन्य ब्रिगेड मुख्यालय पर हुए आतंकियों के आत्मघाती हमले का बदला लेने के लिए की थी। इस हमले में 20 सैन्यकर्मी शहीद हुए थे। गुलाम कश्मीर में स्थित आतंकी ठिकानों पर हमले का खुलासा 29 सितंबर 2016   को तत्कालीन डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिह ने किया था। लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिह इस समय ऊधमपुर स्थित सेना की उत्तरी कमान प्रमुख हैं। संबंधित सूत्रों ने बताया कि इस अभियान में शामिल सेना की चार और 9वीं वाहिनी की घातक टीम और पैरा कमांडो दस्ते की हेलमेट पर लगे कैमरों ने लांचिग पैड पर हुई हर कार्रवाई को रिकार्ड किया था और यह वही फुटेज है। गुलाम कश्मीर में भारतीय सेना द्वारा कार्रवाई करने से 10 दिन पहले लगातार इस अभियान की योजना पर काम हुआ। घातक दस्तों ने पूरे इलाके का खाका तैयार किया। सेना व अन्य खुफिया एजेंसियों ने अपने तंत्र द्वारा कुछ खास लांचिग पैड को चिह्नित किया। सेटलाइट की मदद भी ली गई और अमावस की रात आते ही भारतीय जवान पाकिस्तानी क्षेत्र में घुस गए। इस अभियान की पीएम नरेंद्र मोदी, तत्कालीन रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल और तत्कालीन डीजीएमओ रणबीर सिह ने लगातार निगरानी की थी। अलबत्ता, श्रीनगर स्थित रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता समेत किसी भी अन्य सैन्य अधिकारी ने सर्जिकल स्ट्राइक के वीडियो की पुष्टि नहीं की है। सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में लेफ्टिनेंट जनरल (रिटायर) डीएस हुडा ने एक टीवी चैनल को बताया कि जब कोई इसपर सवाल उठाता है तो निराशा होती है। हम झूठ नहीं बोलते।' हुडा उत्तरी कमान के कमांडर रह चुके हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 28 June 2018


नाइजीरिया में किसानों और चरवाहों के बीच हुई हिंसक झड़प

  नाइजीरिया में किसानों और चरवाहों के बीच हुई हिंसक झड़प में 86 लोगों की मौत हो गई। बार्किन लाडी के पठारी प्रदेश में जनजातीय बेरोम किसानों ने गुरुवार को फुलानी चरवाहों पर हमला किया था, जिसमें पांच चरवाहों की मौत हो गई थी, इसके बाद हिंसा की शुरुआत हुई। इसके जवाब में चरवाहों ने शनिवार को हमला किया, जिसमें बड़े पैमाने पर लोगों की मौत हुई। इस क्षेत्र में जनजातीय समूहों के बीच हिंसा का इतिहास रहा है। द गार्जियन के मुताबिक, देश के तीन हिस्सों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। पुलिस आयुक्त अंडी एडी ने कहा कि इस खूनी झड़प के बाद 86 लोगों की मौत हो गई जबकि छह घायल हैं। उन्होंने आगे बताया कि 50 घरों को जला दिया गया है जबकि 15 मोटरसाइकिल और दो वाहन भी फूंक दिए गए। मृतकों के शवों को उनके परिजनों तक पहुंचा दिया गया है। प्रशासन का कहना है कि नाइजीरिया के समयानुसार रियोम, बारिकिन लाडी और जोस साउथ क्षेत्रों में शाम छह बजे से सुबह छह बजे तक कर्फ्यू रहेगा। गौरतलब है कि नाइजीरिया में जमीन और अन्य संसाधनों को लेकर किसानों और घुमंतू समूहों में अक्सर हिंसक झड़पें होती हैं, जिनमें बड़ी संख्या में लोग मारे जाते हैं। इस तरह के हिंसा की घटना के कारण देश के राष्‍ट्रपति मोहम्‍मदु बुहारी पर दवाब बन गया है क्‍योंकि अगले साल ही यहां चुनाव होना है। बता दें कि रविवार को जनजातीय समूह बेराम के युवाओं द्वारा जोस-एबुजा हाइवे पर उन मोटरसाइकिल चालकों पर हमला किया गया जो फुलानी और मुस्‍लिम थे।

Dakhal News

Dakhal News 25 June 2018


मोदी बोले -भारत और सैशेल्स बड़े रणनीतिक साझेदार

भारत दौरे पर आए राष्ट्रपति डैनी फॉरे ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। इसके बाद दोनों के बीच हुई द्वीपक्षीय व्राता में दोनों देशों के बीच 6 समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए। समझौतों के बाद साझा बयान जारी करते हुए प्रधआनमंत्री ने कहा कि भारत और सैशेल्स बड़े रणनीतिक साझेदार हैं। हम लोकतंत्र की मूल भावना का सम्मान करते हैं और हिंद महासागर में सुरक्षा, शांति और स्थिरता के लिए एक ही जियो स्ट्रेटेजिक विजन रखते हैं। हमने सैशेल्स को रक्षा क्षैत्र के लिए 100 मिलियन डॉलर क्रेडिट पर दिए हैं। वहीं सैशेल्स के राष्ट्रपति ने कहा कि पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत के पास विजनरी समझदारी है कि क्या जरूरी है। खासतौर पर सुरक्षा और हमारे दौर की चुनौतियों के बारे में जिनमें क्लाइमेट चेंज, बहुपक्षीय व्यापार और अनेकता की दूरियों को कम करना है। इससे पहले सुबह राष्ट्रपति फॉरे का औपचारिक स्वागत हुआ जहां उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। इसके बाद प्रधानमंत्री ने उनका स्वागत किया। वहीं राष्ट्रपति फॉरे अपनी पत्नी के साथ दो दिन के गुजरात दौरे पर गए । शनिवार सुबह वे साबरमती आश्रम पहुंचे जहां उन्होंने गांधी जी का निवास ह्दयकुंज देखा और उनकी पत्नी ने चरखा काटा। इससे पहले उन्होंने भारतीय प्रबंध संस्थान का दौरा किया । सेशेल्स के राष्ट्रपति शुक्रवार शाम को ही अहमदाबाद पहुंच गए थे। शनिवार सुबह उन्होंने भारतीय प्रबंध संस्थान अहमदाबाद का दौरा किया। यहां उन्होंने अपने पुराने मित्र संस्थान के निदेशक प्रो. एरोल डिसूजा से भेट की। इसके बाद वे सीधे साबरमती आश्रम पहुंचे जहां आश्रम के ट्रस्टी अमृत मोदी व कार्तिके साराभाई ने उन्हें आश्रम का भ्रमण कराया । राष्ट्रपति डैनी फॉरे ने गांधीजी का निवास ह्दय कुंज देखा उनकी पत्नी ने यहां चरखा भी काटा। आश्रम के ट्रस्टी अमृत मोदी व कार्तिके साराभाई ने राष्ट्रपति डैनी फॉरे को एक चरखा तथा गांधीजी की तीन पुस्तकें भेट की। उनमें गाँधीजी की आत्मकथा , अहमदाबाद में अहिंसा नामक पुस्तक है। इसके बाद वे गांधीनगर स्थित जीएफएसयू में अपने देश के 18 पुलिस अधिकारियों से बात की जो यहां प्रशिक्षण लेने आये है। राज्यपाल ओपी कोहली के साथ उन्होंने दोपहर का भोजन किया। इसके बाद करीब 2.30 बजे वे गोवा के लिए रवाना हो गये। सेशेल्स के राष्ट्रपति डेनी फॉरे सात दिन के भारत यात्रा पर है। पहले चहण में दो दिन के गुजरात और गोवा के दौरे के बाद वे नई दिल्ली में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री से मिलेंगे।  

Dakhal News

Dakhal News 25 June 2018


india

भारत को आतंक के खिलाफ लड़ाई में अपने पड़ोसी देशों का साथ मिलने जा रहा है। छह पड़ोसी देशों ने भारत के साथ सैन्य अभ्यास करने के लिए हामी भरी है। पहली बार भारत की सेना श्रीलंका, बांग्लादेश, भूटान, नेपाल, थाईलैंड और म्यांमार की सेनाओं के साथ युद्धाभ्यास करेगी। यह सैन्य अभ्यास पुणे में आयोजित किया गया है। इसका मकसद काउंटर टेररिस्ट ऑपरेशन में एक दूसरे का सहयोग करने के साथ ही मिलिट्री फोरम बनाना है। बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी अपनी विदेश यात्राओं में इस बात पर जोर देते रहे हैं कि भारत और पड़ोसी देशों को मिलकर आतंक के खिलाफ लड़ाई लड़नी चाहिए। एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, काउंटर टेररिस्ट ऑपरेशन में सबसे बड़ी परेशानी यह होती है कि आतंकवादी किसी एक देश को अपना बेस बनाकर पड़ोसी देश में आतंक फैलाते हैं। वहां वारदात अंजाम देकर फिर उस देश में वापस भाग जाते हैं जहां उनका बेस होता है। इसलिए काउंटर टेररिस्ट ऑपरेशन की सफलता इस पर निर्भर करती है कि अलग अलग देश आतंकियों पर लगाम लगाने के लिए एक दूसरे का सहयोग करते हुए एक फोरम के तहत मिलकर काम करें। इसलिए सात देशों की यह पहल अहम है। वे ऑफ बंगाल इनिशिएटिव फॉर मल्टी सेक्टोरल टेक्निकल एंड इकोनॉमिक कोऑपरेशन (बिम्सटेक) देशों के बीच सैन्य अभ्यास के लिए पहली प्लानिंग कांफ्रेस हो गई है। जिसमें तय किया गया है कि भारत, श्रीलंका, बांग्लादेश, भूटान, नेपाल, थाईलैंड और म्यांमार की सेनाएं मिलकर 10 सितंबर से 16 सितंबर तक संयुक्त सैन्य अभ्यास करेंगें। इस पहले बिम्सटेक सैन्य अभ्यास की मेजबानी भारत करेगा। सभी सात देशों की सेना से पांच-पांच अधिकारी और 25-25 दूसरे रैंक के फौजी इसमें शिरकत करेंगे। 15 और 16 सितंबर को इन सभी सात देशों के सेना प्रमुखों की कांफ्रेस भी होगी। जिसमें सभी मिलकर इस मल्टी नेशन एक्सरसाइज का रिव्यू करेंगे। इस मीटिंग में इस विकल्प पर भी विचार होगा कि क्या एक क्षेत्रीय सुरक्षा फोरम बनाया जा सकता है ताकि मिलकर आतंकवाद से और ट्रांस नेशनल क्राइम से मुकाबला किया जा सके। आपको बता दें कि 2012 से भारत ने दूसरे देशों के साथ सैन्य अभ्यास करने की संख्या बढ़ा दी है। भारत ने 2012 में आठ देश, 2013 और 2014 में छह, 2015 में नौ, 2016 में 14, 2017 में 15 और 2018 में अबतक सात सैन्य अभ्यास किए हैं। गौरतलब है कि म्यांमार से आए रोहिंग्या को लेकर भारत आंतरिक सुरक्षा पर खतरा महसूस करता रहा है। अगर म्यांमार सहित बाकी छह देशों के साथ मिलकर भारत एक क्षेत्रीय सुरक्षा फोरम बनाने में कामयाब रहा तो इस तरह की दिक्कतों से निजात मिल सकती है। साथ ही आतंकी इन देशों के जरिये भारत में घुसपैठ की कोशिश करते हैं तो क्षेत्रीय सुरक्षा फोरम उन पर लगाम लगाने में सफल होगा।

Dakhal News

Dakhal News 22 June 2018


कोविंद ने सूरीनाम के राष्ट्रपति के साथ किया योग

  राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपने सूरीनाम के समकक्ष डेसिरे डेलाओ बोउटेर्सेल के साथ परमारिबो में योग किया। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज यूरोपीय संसद परिसर में आयोजित उत्सव में शामिल हुई। चौथे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर दुनिया भर में लोगों ने हिस्सा लिया। तीन देशों की यात्रा पर निकले राष्ट्रपति कोविंद अभी लातिन अमेरिकी देश सूरीनाम में हैं। उन्होंने और बोउटेर्सेल ने टी-शर्ट पहनकर योग करने वालों के साथ भाग लिया। इस मौके पर योग में भाग लेने आए जनसमूह से उन्होंने कहा, 'अंतरराष्ट्रीय योग दिवस उत्सव में भारत से 14,000 किलोमीटर दूर भाग लेकर अत्यंत प्रसन्नता हुई। परमारिबो में सूरीनाम के राष्ट्रपति बोउटेर्सेल ने भी हिस्सा लिया है। मैं सभी योगियों को धन्यवाद देता हूं जिन्होंने इसमें भाग लेकर कार्यक्रम को यादगार बनाया है।' पहली बार दो देशों के प्रमुखों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस में हिस्सा लिया है। संयुक्त राष्ट्र महासभा ने दिसंबर 2014 में 21 जून को हर साल अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की थी। ब्रुसेल्स में विदेश मंत्री स्वराज यूरोपीय संसद परिसर में योग दिवस उत्सव में शामिल हुई। नेपाल में राजधानी काठमांडू में स्थित नेपाली पुलिस प्रशिक्षण अकादमी के परिसर में विशेष योग का प्रदर्शन किया गया। यहां सुबह से हो रही भारी बारिश के बावजूद बड़ी संख्या में लोग भाग लेने पहुंचे। नेपाल के उपप्रधानमंत्री एवं रक्षा मंत्री ईश्वर पोखरेल के साथ भारतीय राजदूत मंजीव सिंह पुरी ने भी भाग लिया। जनकपुर स्थित जानकी मंदिर में हुए उत्सव में राज्यपाल रत्नेश्वर लाल कायस्थ और मुख्यमंत्री लालबाबू राउत ने भाग लिया।  

Dakhal News

Dakhal News 21 June 2018


pakistan

खबर न्‍यूयार्क से । दक्षिण वजीरिस्‍तान में पश्‍तून कार्यकर्ताओं की रैली पर पाकिस्‍तानी आर्मी द्वारा फायरिंग के खिलाफ पख्‍तून तहफ्फुज मूवमेंट (पीटीएम) ग्रुप के सदस्‍यों ने विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने संयुक्‍त राष्‍ट्र से पाकिस्‍तान आर्मी पर प्रतिबंध लागू करने की अपील की है। यह प्रदर्शन न्‍यूयार्क स्‍थिति संयुक्‍त राष्‍ट्र कार्यालय के बाहर हुआ और यह देश समर्थित तालिबान के खिलाफ भी था जो निर्दोष पख्‍तून पर हमले के लिए जिम्‍मेवार है। पाकिस्‍तानी सेना के खिलाफ पख्‍तूनों का गुस्‍सा लंबे समय से चल रहा है। पिछले सप्‍ताह दक्षिण वजीरिस्‍तान में शांतिपूर्ण रैली निकाले जाने के दौरान पाकिस्‍तान आर्मी के हमले में अनेकों पीटीएम कार्यकर्ता मारे गए। प्रदर्शनकारियों ने इस हमले की जांच करने की मांग की है और अंतरराष्‍ट्रीय समुदाय से हस्‍तक्षेप की मांग की है। पीटीएम कार्यकर्ताओं के साथ यह अभियान चलाया गया। प्रदर्शन के दौरान, कार्यकर्ताओं ने पाक आर्मी के चीफ आर्मी स्‍टाफ जनरल कमर जावेद बाजवा और सुरक्षाबलों की निंदा की। पाक आर्मी और बाजवा पर हमला बोलते हुए उन्‍होंने नारे लगाए। उनका कहना है कि पिछले कुछ बरसों में सेना की कार्रवाई में हजारों पख्‍तून लापता हो चुके हैं हजारों को बिना कोई मुकदमा चलाए मारा जा चुका है। पख्‍तूनों के खिलाफ पाकिस्तानी सेना लंबे समय से दमन चक्र चला रही है। पख्‍तून मानवाधिकारों को ताक पर रख दिया गया है। पिछले कई महीनों में समय-समय पर पाकिस्‍तानी सेना के खिलाफ पख्‍तूनों ने विरोध प्रदर्शन के साथ रैलियां निकाली हैं। पाकिस्तान के दूसरे सबसे बड़े जातीय समूह पख्‍तून लगातार अपनी सुरक्षा, नागरिक स्वतंत्रता और समान अधिकारों के लिए संघर्ष कर रहे हैं। इस बीच वॉयस ऑफ कराची के चेयरमैन नदीम नुसरत ने पिछले सप्‍ताह पाकिस्‍तानी सेना की कड़ी निंदा की थी। उन्‍होने कहा देश की सेना देश की सुरक्षा के लिए है कानून बनाने के लिए नहीं जो किसी को भी देशविरोधी करार दे सकती है।  

Dakhal News

Dakhal News 11 June 2018


अफगानिस्तान का तालिबान के साथ संघर्ष विराम

शांति प्रक्रिया की दिशा में एक अहम फैसला लेते हुए अफगानिस्तान सरकार ने ईद के मौके पर तालिबान के साथ संघर्ष विराम ऐलान किया है। हालांकि, इस्लामिक स्टेट समेत अन्य आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई जारी रहेगी। राष्ट्रपति अशरफ गनी ने गुरुवार को अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इसकी जानकारी देते हुए संकेत दिया कि 12 से 19 जून के बीच संघर्ष विराम जारी रह सकता है। हालांकि, अभी इस बात का पता नहीं चला है कि तालिबान इसके लिए तैयार है अथवा नहीं। यदि ऐसा होता है, तो 2001 में अमेरिकी हमले के बाद पहला मौका होगा, जब तालिबान के साथ सरकार का संघर्ष विराम रहेगा। तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने बताया कि सरकारी प्रस्ताव का जवाब देने के लिए हम अपने अधिकारियों के साथ संपर्क में हैं। काबुल में एक मौलाना द्वारा लोगों को संबोधित करते हुए संघर्ष विराम की अपील करने और आत्मघाती हमलों के खिलाफ फतवा जारी करने के एक दिन बाद सरकार ने यह कदम उठाया है। हालांकि, मौलाना द्वारा फतवा जारी करने के एक घंटे बाद उसी सभा के बाहर आतंकियों ने आत्मघाती हमला कर दिया। इसमें सात लोगों की मौत हो गई। राष्ट्रपति गनी ने मौलाना द्वारा आत्मघाती हमले के खिलाफ फतवा जारी करने का समर्थन किया है। राष्ट्रपति कार्यालय ने एक बयान जारी कर कहा कि सरकार न सिर्फ फतवे का समर्थन करती है, बल्कि संघर्ष विराम के भी पक्ष में है।

Dakhal News

Dakhal News 7 June 2018


अब डेनमार्क में बुर्का पहनने पर रोक

डेनमार्क में सार्वजनिक स्थानों पर बुर्का पहनने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। यहां की संसद ने इस संबंध में गुरुवार को एक कानून को स्वीकृति दे दी। इसमें सार्वजनिक स्थानों पर इस इस्लामिक पहनावे पर रोक लगा दी गई है। इसके उल्लंघन पर दंड के साथ जुर्माने का भी प्रावधान किया गया है। डेनमार्क की मीडिया के अनुसार, 75 सांसदों ने प्रतिबंध के पक्ष में वोट दिया। 30 सांसदों ने सार्वजनिक स्थलों पर बुर्का या नकाब पहनने पर प्रतिबंध लगाने का विरोध किया। हालांकि नए कानून के तहत सर्दी से बचने के लिए पहने जाने वाले कपड़ों पर रोक नहीं लगाई गई है। डेनमार्क में यह नया कानून एक अगस्त से प्रभावी हो जाएगा। डेनमार्क से पहले फ्रांस और आस्ट्रिया जैसे यूरोपीय देशों में इसी तरह के कदम उठाए जा चुके हैं। इन देशों ने भी सार्वजनिक स्थानों पर बुर्का जैसे पहनावे पर रोक लगा दी है।

Dakhal News

Dakhal News 1 June 2018


सिंगापुर और भारत के बीच व्यापर बढ़ेगा

  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दो दिवसीय सिंगापुर दौरे का आज अंतिम दिन है। पीएम मोदी और सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली सिएन लूंग के बीच मुलाकात हुई। इस दौरान दोनों देशों की ओर से कई समझौतों पर हस्ताक्षर हुए। बताया जा रहा है कि सिंगापुर और भारत के बीच व्यापार को बढ़ावा देने के लिए करीब 14 समझौतों पर हस्ताक्षर हुए हैं। वार्ता के बाद दोनों देशों ने संयुक्त प्रेस वार्ता को संबोधित किया। इससे पहले शुक्रवार को इस्ताना में पीएम मोदी का औपचारिक स्वागत किया गया। इस दौरान उनके साथ सिंगापुर के स्वागत के बाद पीएम मोदी ने राष्ट्रपति हलिमा याकूब से शिष्टाचार भेंट की। सिंगापुर के प्रधानमंत्री ने कहा- 'हमने रक्षा संबंधों को मजबूत किया है, हमारी नौसेना ने आज लॉजिस्टिक्स सहयोग पर एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं और इस वर्ष वार्षिक सिंगापुर-भारत समुद्री द्विपक्षीय अभ्यास की 25 वीं वर्षगांठ मनाएंगे।  पीएम ली सिएन लूंग ने कहा-'भारतीय पर्यटक चांगई हवाई अड्डे और सिंगापुर में कुछ खास ऑपरेटरों पर इलेक्ट्रॉनिक भुगतान के लिए अपने रुपे कार्ड का उपयोग करने में सक्षम होंगे"पीएम मोदी ने कहा- कल शाम सिंगापुर की महत्वपूर्ण कंपनियों के CEOs के साथ राउंड टेबल पर मुझे भारत के प्रति उनके विश्वास को देखकर बहुत प्रसन्नता हुई। भारत और सिंगापुर के बीच एयर ट्रैफिक तेजी से बढ़ रहा है। दोनों पक्ष शीघ्र ही द्विपक्षीय एयर सर्विस एग्रीमेंट की समीक्षा शुरू करेंगे। इससे पहले पीएम मोदी ने सिंगापुर के प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया और कहा, उन्होंने (पीएम ली ने) हमेशा भारत के साथ संबंधों को मजबूत करने के लिए अथक प्रयास किए हैं।

Dakhal News

Dakhal News 1 June 2018


किसानों का गांव बंद

  देश में पहली बार शुक्रवार से मध्यप्रदेश ,हरियाणा समेत अन्य राज्यों के किसान 10 दिन की छुट्टी पर जा रहे हैं। किसान एक से 10 जून तक शहरों में फल-सब्जियों और दूध की सप्लाई नहीं करेंगे। किसानों ने इन 10 दिनों में शहर की दुकानों, शोरूम और सुपर बाजार का रुख नहीं करने का भी अहम निर्णय लिया है। अगर शहरी लोगों को फल-दूध या सब्जी चाहिए तो उन्हें गांवों का रुख करना पड़ेगा। दाम भी किसान ही तय करेंगे। किसान यह सब केंद्र व राज्य सरकारों की नीतियों के विरोध में कर रहे हैं। राष्ट्रीय किसान महासंघ के प्रतिनिधियों ने एक से 10 जून तक शहरों में दूध व फल-सब्जियों की आपूर्ति नहीं होने देने की रणनीति बनाई है। राष्ट्रीय किसान महासंघ के वरिष्ठ सदस्य व भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश प्रधान गुरनाम सिंह चढूनी और प्रदेश प्रवक्ता राकेश कुमार ने बताया कि स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू नहीं करने व कर्ज माफी नहीं होने पर किसानों को यह कदम उठाना पड़ रहा है। उन्होंने बताया कि 62 किसान संगठनों ने इस दौरान गांवों से शहरों को खाद्य पदार्थो की सप्लाई नहीं होने देने की पूरी रणनीति बना ली है। गुरनाम चढूनी और राकेश कुमार ने साफ किया कि इस बंद में वह कोई रोड जाम नहीं करेंगे। किसान अपने घर और गांव में बैठकर शहर और सरकार को अपना दर्द समझाएंगे। आंदोलन के दौरान किसान आढ़तियों से भी पूरी तरह दूरी बनाकर रखेंगे। किसानों द्वारा एक दूसरे से उधार लेकर 10 दिन तक आर्थिक लेन-देन किया जाएगा। जगह-जगह  दिखा किसान आंदोलन का असर  किसान आंदोलन का असर धीरे-धीरे छोटे-बड़े शहरों की मंडियों में दिखने लगा है। अपनी पूर्व घोषणा के मुताबिक किसानों ने कहा था कि वे अपनी उपज मंडियों में नहीं भेजेंगे, ऐसे में मंडियों में शुक्रवार को सामान्य से कम ही भीड़ नजर आई। कई मंडियों में किसान अपनी उपज लेकर नहीं पहुंचे और व्यापारियों ने पुराना स्टॉक किया माल ही बेचा। भोपाल की भी प्रमुख मंडियों में लोगों तक पुराना माल ही पहुंच रहा है। हालांकि लोगों ने एक दिन पहले से सब्जी और अन्य जरुरी सामानों का स्टॉक करना शुरू कर दिया था लेकिन आज भी कई लोग जब मंडियों में पहुंचे तो उन्हें ताजा माल नहीं मिला। किसान सब्जी, अनाज और अपनी उपज लेकर मंडियों में नहीं पहुंचे। पुराना माल होने के कारण भी बिक्री ज्यादा नहीं हुई। इधर होशंगाबाद ,पिपरिया में भी सब्जी मंडी में माल नहीं आया और 2 दिन पुरानी सब्जियां बिकीं। सब्जी मार्केट एसोसिएशन के अध्यक्ष आमीन राइन के मुताबिक बिक्री में 30 फीसदी गिरावट आई है और सब्जियां रोड़ पर ही बिक रही हैं। मंडियों में ज्यादा किसान नहीं पहुंचे हैं। दूध की सप्लाई पर फिलहाल असर नहीं है। बाजार के जानकारों के मुताबिक हड़ताल का असर 3 जून से नजर आएगा। इधर इटारसी मंडी में पुलिस ने किसानों से संवाद किया। एसपी मंडी क्षेत्र का जायजा ले रहे हैं। वहीं पिपरिया में कुछ लोगों को रोकने का प्रयास हुआ है। जगह-जगह पुलिस बल तैनात है। पुलिसकर्मियों की ड्यूटी रात 3 बजे से लगाई गई है। वहीं विदिशा में किसानों के बंद आंदोलन का खासा असर दिखाई दे रहा है। विदिशा शहर के बाहरी इलाकों में बंद आंदोलन कर रहे किसान सुबह से ही जमा हो गए थे और शहर में आने वाले दूध बेचने वालों को वापस गांव लौटा रहे थे। इस दौरान किसानों और दूध बेचने वालों के बीच मामूली विवाद की स्थिति भी बनीं। मौके पर पहुंची पुलिस ने मामला शांत कराया। हालांकि इस दौरान पुलिस की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई। बंद आंदोलन से विदिशा में दूध की सप्लाई प्रभावित हुई है और आज कई जगह दूध की सप्लाई नहीं हो पाई।

Dakhal News

Dakhal News 1 June 2018


nsc

  मुंबई में हुए 26/11 आतंकी हमले को लेकर पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ द्वारा दिए गए बयान को पाकिस्तान की राष्‍ट्रीय सुरक्षा समिति (एनएससी) ने नकार दिया है। बयान को लेकर सोमवार को पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकन द्वारा बुलाई गई बैठक के बाद नवाज शरीफ के बयान को झूठा करार दे दिया गया। जियो टीवी के अनुसार, बैठक के बाद एनएससी ने कहा कि मुंबई हमलों को लेकर दिया नवाज शरीफ के बयान को नकारते हैं। उनका बयान पूरी तरह से झूठा और भ्रमित करने वाला है। इससे पहले रविवार को आईएसपीआर के मेजर जेनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट किया- ‘सोमवार को प्रधानमंत्री शाहिद खाकन अब्बासी को उच्च अधिकार वाली एनएससी की बैठक बुलाने का सुझाव दिया गया है।’ यह ऐसा मंच है, जहां पाक सरकार और सेना का शीर्ष नेतृत्व राष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा करता है। डॉन न्‍यूजपेपर को दिए गए हाल के एक साक्षात्‍कार में नवाज ने कहा, ‘आतंकी संगठन सक्रिय हैं।‘ इन्‍हें ‘नॉन स्‍टेट एक्‍टर्स’ बोलते हुए नवाज ने बताया, ‘क्‍या इन्‍हें सीमा पार करने और मुंबई में 150 लोगों को मरने के लिए अनुमति देनी चाहिए? मुझे इस बारे में बताएं। हम इन ट्रायल को पूरा क्‍यों नहीं कर सकते?’ नवाज के इस तरह के बयान पर काफी हंगामा हो रहा है। बता दें कि एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, नवाज शरीफ ने पहली बार पाकिस्तान की उस नीति पर सवाल उठाए हैं जिसके तहत गैर-सरकारी तत्वों को सीमा पार करके मुंबई में लोगों को मारने की अनुमति दी गई। शरीफ का यह भी कहना था, 'हमने अपने आप को अलग-थलग कर लिया है। शहादतें देने के बावजूद हमारी बात नहीं मानी जा रही। अफगानिस्तान की बात मानी जा रही है, लेकिन हमारी नहीं। हमें इस पर विचार करना चाहिए।' क्रिकेटर से नेता बने इमरान खान ने एक ट्वीट में शरीफ को आज के जमाने का मीर जाफर करार दिया। पीटीआई क्रिकेटर से नेता बने इमरान ने कहा, नवाज शरीफ मौजूदा जमाने के मीर जाफर हैं, जिसने अपने लाभ के लिए मुल्क को गुलाम बनाने में अंग्रेजों की मदद की थी। वह गलत ढंग से अर्जित धन और विदेशों में अपने बेटे की कंपनियों के लिए देश के खिलाफ (भारत के प्रधानमंत्री) नरेंद्र मोदी की भाषा बोल रहे हैं। वह देश को नुकसान पहुंचाने के लिए पाकिस्तान के दुश्मनों का समर्थन कर रहे हैं। पीपीपी की नेता शेरी रहमान ने रविवार को नवाज शरीफ द्वारा दिए गए बयान को लेकर उनकी निंदा की और कहा कि वे मोदी का पक्ष ले रहे हैं। उन्‍होंने कहा, ‘पीपीपी नवाज शरीफ के बयान को खारिज करती है। क्‍या वे विश्लेषक हैं जो इस तरह का बयान दे रहे हैं? नवाज ने यह क्‍यों नहीं कहा कि मुंबई हमला मामले में पाकिस्‍तान की ओर से भारत को हरसंभव मदद देने की कोशिश की जा रही है।‘  

Dakhal News

Dakhal News 14 May 2018


आतंकी हाफिज सईद

2008 के मुंबई हमलों के मास्टर माइंड हाफिज सईद ने जमायत-उल दावा की राजनीतिक विंग मिल्ली मुस्लिम लीग (एमएमएल) के लिए प्रचार शुरू कर दिया। हालांकि संगठन को चुनाव आयोग ने मान्यता नहीं दी है, क्योंकि गृह विभाग से उसे अनापत्ति प्रमाण पत्र नहीं मिला है। हाफिज का कहना है कि पाक के शत्रु देश के प्रतिष्ठानों को आपस में लड़ाना चाहते हैं, जिससे उनके मंसूबे पूरे हो सकें। लाहौर से तकरीबन 400 किमी दूर स्थित हारुनाबाद में एक रैली में उनका कहना था कि हमें उनके एजेंडे को फेल करने के लिए एक रहना होगा। उनके साथ सैनिक तानाशाह रहे जनरल जियाउल हक के बेटे इजाजुल हसन भी मौजूद थे। सईद ने कहा कि पाक सरकार को अपनी भारत नीति में परिवर्तन करना चाहिए। उसने इस बात की पुष्टि की कि 2018 का आम चुनाव उनकी पार्टी एमएमएल के बैनर तले लड़ेगी। उनका दावा है कि वह पाक की आर्थिक स्थिति को सबल बनाने के लिए काम करना चाहते हैं। गौरतलब है कि सईद आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का प्रमुख रहा है। अमेरिका ने उसे व उसके संगठन को प्रतिबंधित कर दिया तो उसने जमायत-उल-दावा के जरिये अपना काम काज शुरू कर दिया। अमेरिका ने उसे वैश्विक आतंकी की अपनी सूची में शुमार कर रखा है। अमेरिकी ने पिछले माह एमएमएल को भी को विदेशी आतंकी संगठन करार दिया था। उसका कहना है कि लश्कर-ए-तैयबा के सदस्यों ने इसका गठन किया है।  

Dakhal News

Dakhal News 7 May 2018


न्यूयॉर्क कोर्ट में जज बनीं भारतवंशी दीपा

  अमेरिका में भारतवंशी महिला दीपा अंबेकर (41) को न्यूयॉर्क सिटी के सिविल कोर्ट में कार्यवाहक जज नियुक्त किया गया है। अंबेकर न्यूयॉर्क में जज बनने वाली दूसरी भारतवंशी महिला हैं। उनसे पहले 2015 में चेन्नई में जन्मीं राज राजेश्वरी को आपराधिक अदालत में न्यायाधीश नियुक्त किया गया था। न्यूयॉर्क के मेयर बिल दे ब्लासियो ने अंबेकर के साथ पारिवारिक अदालत के तीन जजों की दोबारा नियुक्ति की घोषणा की। ब्लासियो ने कहा, "प्रत्येक न्यूयार्क वासी को निष्पक्ष और उचित न्याय पाने का अधिकार है। मुझे भरोसा है कि ये चारों जज सुनिश्चित करेंगे कि अदालत का दरवाजा खटखटाने वाले हर शख्स को इंसाफ मिले।" अंबेकर ने मिशिगन यूनिवर्सिटी से अंडर ग्रेजुएट डिग्री लेने के बाद रटगर्स लॉ स्कूल से कानून में स्नातक की डिग्री हासिल की। उन्होंने तीन साल तक न्यूयॉर्क सिटी काउंसिल में सीनियर लेजिस्लेटिव अटॉर्नी के तौर पर भी काम किया। भारतवंशी वकील निशा अग्रवाल (40) को न्यूयॉर्क के डिप्टी मेयर फिल थॉम्पसन का वरिष्ठ सलाहकार नियुक्त किया गया है। आव्रजन नीति में बदलाव की लड़ाई लड़ रहीं निशा ब्रेन कैंसर से जूझ रही हैं। निशा आव्रजन, लोकतंत्र और स्वास्थ्य क्षेत्र में सुधार के लिए बनाए जा रहे कार्यक्रमों में सलाहकार की भूमिका निभाएंगी।

Dakhal News

Dakhal News 5 May 2018


laden

  पाकिस्तान के एबटाबाद में अलकायदा सरगना ओसामा बिन लादेन को मार गिराने के अभियान से जुड़ी एक नई जानकारी सामने आई है। लादेन को गोली मारने वाले अमेरिकी नेवी सील के कमांडो रॉब ओ नील ने कहा, लादेन के गढ़ में पहुंचने पर कमांडो को लगा था कि यह ऑपरेशन उनका आखिरी ऑपरेशन होगा। मालूम हो कि लादेन को अमेरिकी सैनिकों ने पाकिस्तान में घुसकर 2 मई 2011 को मार गिराया था। इस ऑपरेशन की सातवीं वर्षगांठ पर नील ने कहा, "हमारे दल में शामिल सभी कमांडो मान चुके थे कि वह मरने वाले हैं। उन्होंने अपने घर वाले को अलविदा भी कह दिया था। उस वक्त यह एक गर्व की बात थी। ऐसी टीम का हिस्सा होना मेरे लिए सम्मानजनक है।" एक साक्षात्कार में नील ने कहा, मिशन पूरा कर जब हम सभी हेलीकॉप्टर में वहां से निकले तब लगा कि हमारी जान बच सकती है। पायलट ने संदेश दिया कि हम अफगानिस्तान में हैं। यह सुनने के बाद लगा कि हमने कर दिखाया।"  

Dakhal News

Dakhal News 3 May 2018


आंधी-तूफान का कहर

  प्रचंड गर्मी के बीच बुधवार को देश के कुछ हिस्सों खासकर दिल्ली, यूपी व राजस्थान में आंधी व बारिश का कहर बरपा। कुदरत की इस अफत में अलग-अलग राज्यों में कुल 95 लोगों की मौत हो गई वहीं सैकड़ों घायल हैं। इसके अलावा पेड़ और मकान गिरने से लोगों को भारी नुकसान उठाना पड़ा है। तूफान के चलते यूपी में जहां अब तक 36 तो वहीं राजस्थान में आंधी से 22 लोगों की मौत हो गई वहीं 100 से ज्यादा घायल हैं। उधर पश्चिम बंगाल और झारखंड में वज्रपात से 15 लोगों की जान चली गई। राजधानी में बुधवार शाम 4.45 से 4.47 तक मात्र दो मिनट चली आंधी ने शहर को झकझोर दिया। इस दौरान हवा की रफ्तार 59 किमी प्रति घंटा रही। दो अंतरराष्ट्रीय उड़ानों समेत 15 फ्लाइट को डायवर्ट किया गया। कुछ जगह पेड़ गिरने से ट्रैफिक बाधित हो गया। जबकि संसद मार्ग, लाजपत नगर व द्वारका में 7.40 बजे के बाद तेज बारिश हुई। सफदरजंग मौसम केंद्र ने 13.4 मिमी बारिश दर्ज की। बुधवार को आये आंधी-तूफान में मरने वालों की संख्या 36 पहुंची, डीएम गौरव दयाल ने की पुष्टि। मृतकों की बड़ी संख्या को देखते हुए पोस्टमार्टम हाउस में मजिस्ट्रेट की ड्यूटी लगाई गई। डॉक्टरों की विशेष टीम गठित की गई है। हंगामे की आशंका के चलते सुरक्षा व्यवस्था भी की गई है। इसी तरह एसएन इमरजेंसी और जिला अस्पताल के डॉक्टरों को सतर्क कर दिया गया है। आंधी-तूफान से आगरा के ताजमहल को नुकसान पहुंचा। रॉयल गेट पर लगा 12 फीट ऊंचा और दक्षिण गेट पर लगा 8 फीट ऊंचा पिलर टूटकर गिर पड़ा। सरहिदी बेगम के मकबरे की छत का गुलदस्ता भी नीचे आ गया। राजस्थान के अलवर, भरतपुर और धौलपुर जिलों में बुधवार देर शाम जबर्दस्त आंधी चली। इसमें जानमाल का भारी नुकसान हुआ। 22 लोगों की मौत हो गई और 100 से ज्यादा घायल हो गए। मृतकों में चार अलवर में, सात भरतपुर और दो धौलपुर के बताए जा रहे हैं। जानकारी के अनुसार, अलवर में रात करीब पौने आठ बजे अंधड़ आया और पूरे अलवर, भरतपुर, धौलपुर इलाके में छा गया। इसकी गति इतनी तेज थी कि सड़क पर खड़े वाहन पलट गए। बताया जा रहा है कि करौली-भिवाड़ी को जोड़ने वाले स्टेट हाईवे पर गाड़ियों से भरा एक ट्रक ही पलट गया। पूरे इलाके में करीब डेढ़ घंटे तक बारिश हुई और ग्रामीण इलाकों में काफी नुकसान हुआ। अलवर के पास एक टोल प्लाजा पूरी तरह धराशायी हो गया। बीते 24 घंटों में आंध्र के कुछ शहरों में भारी बारिश हुई। अचानक बारिश से 18 से ज्यादा मौतों की खबर है। विशाखापत्तनम, विजयनगरम, श्रीकाकुलम, मलकापुरम आदि क्षेत्रों में भारी वर्षा का जनजीवन पर असर पड़ा। पश्चिम बंगाल के विभिन्न जिलों में बुधवार को बारिश व आंधी के दौरान वज्रपात व दीवार गिरने से 10 लोगों की मौत हो गई। जबकि कई लोग जख्मी को गए। आठ लोगों की मौत बिजली गिरने से, वहीं दो लोगों की मौत दीवार गिरने होने की खबर है। उधर झारखंड में मंगलवार और बुधवार को आंधी के बीच बेमौसम बारिश से रांची के आसपास के जिलों में जान-माल की क्षति हुई। वज्रपात से राज्य में सात लोगों की मौत हो गई। पंजाब में बुधवार को कई जिलों में तेज तूफान के साथ बारिश हुई। हालांकि, लुधियाना, जालंधर और अमृतसर शहर बारिश से अछूते रहे। इनके आसपास के क्षेत्रों में जमकर बारिश हुई। पटियाला व संगरूर में दिन में ही अंधेरा छा गया। पटियाला की रिशी कॉलोनी में एक प्लॉट की दीवार गिरने से प्लॉट मालिक हरमिंदर सिंह व एक श्रमिक राजू की मौत हो गई। बरनाला व रूपनगर में मंडियों में रखी गेहूं भीग गई। उत्तराखंड के चमोली जिले के नारायणबगड़ में बादल फटने से कई दुकानें और मकानों को नुकसान पहुंचा है, हालांकि इसमें किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है। उत्तराखंड में नैनीताल, अल्मोड़ा, देहरादून, हरिद्वार समेत प्रदेश के कई हिस्सों में शाम को धूल भरी आंधी के साथ बारिश हुई। उधर, बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री व यमनोत्री में बारिश होने से श्रद्धालुओं को ठंड का सामना करना पड़ रहा है। वहीं हिमाचल प्रदेश में बुधवार को अधिकांश क्षेत्रों में बारिश दर्ज की गई जबकि कुछ क्षेत्रों में ओलावृष्टि से फसलों को नुकसान पहुंचा। दूसरी ओर भीषण गर्मी से जूझ रहे जम्मू कश्मीर में बुधवार को कुछ जगहों पर धूल भरी आंधी और तेज बारिश के कारण थोड़ी राहत मिली।  

Dakhal News

Dakhal News 3 May 2018


शिवराज सिंह चौहान

  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने नई दिल्ली में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी से उनके निवास पर मुलाकात की। मुलाकात के दौरान यूनाइटेड अरब अमीरात का प्रतिनिधि-मंडल भी मौजूद था। बैठक प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अगुवाई में बुलाई गयी थी, जिसमें मध्यप्रदेश, गुजरात और महाराष्ट्र राज्य के मुख्यमंत्रियों को चर्चा के लिए बुलाया गया था। बैठक में यू.ए.ई. के साथ इन राज्यों में व्यापार की संभावनाओं पर विचार किया गया।  बैठक में मध्यप्रदेश द्वारा प्रजेन्‍टेशन के माध्यम से प्रदेश में उद्योग, कृषि और व्यापार की अपार संभावनाओं के बारे में विस्तार से बताया गया। साथ ही निर्यात की संभावनाओं को भी तलाशा गया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश में पिछले कई वर्षों से कृषि उत्पादन दर 20 प्रतिशत से अधिक रही है। शरबती गेहूँ, दालों और मसालों का रिकार्ड उत्पादन हुआ है। उद्यानिकी के क्षेत्र में भी मध्यप्रदेश ने कीर्तिमान स्थापित किये हैं। श्री चौहान ने कहा कि यू.ए.ई. से हमारे देश के बेहतर संबंध रहे हैं।  मुख्यमंत्री ने आशा व्यक्त की कि संबंधों को और अधिक मजबूत बनाने की दिशा में इस बैठक से नई कड़ी जुड़ेगी। मध्यप्रदेश में कृषि निर्यात प्रमोशन एजेंसी श्री चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश सरकार ने कृषि निर्यात प्रमोशन एजेंसी बनाई है, जो प्रदेश के उत्पादों का अन्य देशों में निर्यात करने की संभावनाएँ तलाशेगी। इसके लिए राज्य सरकार ने एक टास्क फोर्स गठित की है, जिसमें राज्य सरकार और यू.ए.ई. के पाँच-पाँच सदस्य होंगे। यह फोर्स प्रदेश भर में कार्यशालाएँ आयोजित करेगा और निर्यात किये जाने वाले उत्पादों की संभावनाओं को तलाशेगा। इसके साथ ही यू.ए.ई. से एक कांट्रेक्ट फार्मिंग करारनामा किया गया है, जिसके तहत किसान अपने उत्पाद को मण्डी के बाहर भी सीधा विदेशों में निर्यात कर सकता है। मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्य सरकार ने इंदौर के पास विशेष निर्यात जोन (एस.ई.जेड) खोलने का प्रस्ताव दिया है। जोन में विभिन्न प्रकार के करों में छूट दी जायेगी। राज्य सरकार द्वारा खाद्य प्र-संस्करण की नीति बनाकर केबिनेट से पारित करवाई गई है। नीति के जरिये किसान खाद्य प्र-संस्करण यूनिट खोल सकेंगे, अपने उत्पादों को निर्यात कर सकेंगे और मुनाफा कमा सकेंगे।  28 मई से 9 जून तक प्रदेश में किसान कार्यशालाएँ मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि आगामी 28 मई से 9 जून तक प्रदेश के विभिन्न अंचलों में किसानों की कार्यशाला आयोजित की जायेगी। कार्यशालाओं में किसानों को योजनाओं के बारे में जानकारी दी जायेगी, ताकि वे योजनाओं का भरपूर फायदा प्राप्त कर सकें।    

Dakhal News

Dakhal News 3 May 2018


modi

  दो दिवसीय चीन दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को वुहान में चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात की। इस दौरान दोनों देशों के बीच शीर्ष स्तरीय छह-छह सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल के साथ वार्ता हुई। इस वार्ता में पीएम मोदी ने 2019 में इस तरह का सम्मेलन भारत में करने की इच्छा जताते हुए कहा कि दोनों देश दुनिया की आबादी का 40 प्रतिशत हैं। हम साथ मिलकर दुनिया कि कई समस्याओं का समाधान कर सकते हैं। इस दिशा में साथ काम करना हमारे लिए एक अच्छा अवसर है। पीएम ने आगे कहा कि भारत के लोग इस बात पर गर्व करते हैं कि मैं पहला प्रधानमंत्री हूं जिसके स्वागत के लिए चीनी राष्ट्रपति दो बार अपनी राजधानी से बाहर आए। मुझे उम्मीद है कि इस तरह की अगली अनौपचारिक बैठक 2019 में भारत में होगी। इससे पहले पीएम मोदी और चीनी राष्ट्रपति की हुबई प्रंतीय संग्रहालय में मुलाकात हुई। गर्मजोशी से मिले दोनों नेताओं के हैंडशेक के बाद पीएम मोदी का यहां पारंपरिक नृत्य और संगीत के साथ स्वागत किया गया। इसके बाद दोनों ने आपस में बात की। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि भारत और चीन दोनों देशों की संस्कृति नदियों के किनारे ही विकसित हुई। अगर भारत में हम हड़प्पा और मोहनजोदाड़ो की बात करें तो यह दोनों सभ्यताएं नदी कि किनारों पर ही विकसित हुई हैं। वहीं उन्होंने थ्री जॉर्ड डैम की तारीफ करते हुए कहा कि जब में गुजरात का मुख्यमंत्री था तब मुझे वुहान आने का मौका मिला था। मैंने थ्री जॉर्ज डैम के बारे में काफी कुछ सुना था कि किस तरह आपने उसे बनाया। इसने मुझे काफी प्रभावित किया और मैं यहां एक दिन के स्टडी टूर पर आया था। इस दो दिवसीय अनौपचारिक शिखर सम्मेलन में विभिन्न मुद्दों पर बातचीत होगी और दोनों ही एक-दूसरे के साथ काफी समय बिताएंगे। दोनों नेताओं के बीच कम से कम दो बार द्विपक्षीय मुद्दों पर अकेले में बात होगी जबकि एक बार शीर्ष स्तरीय छह-छह सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल के साथ वार्ता होगी। इस अनौपचारिक वार्ता में ना तो किसी समझौते पर दस्तखत किए जाएंगे और ना ही कोई संयुक्त वक्तव्य जारी किया जाएगा। इस वार्ता में आपसी रिश्तों से जुड़े हर मुद्दे को उठाया जाएगा और अहम समस्याओं का स्थाई समाधान निकालने पर ज्यादा ध्यान दिया जाएगा। प्रधानमंत्री शुक्रवार को जिनपिंग के साथ लंच करेंगे जिसके बाद दोनों के बीच अकेले में बैठक होगी। इसके बाद रात्रि में दोनों चर्चित ईस्ट लेक के किनारे डिनर करेंगे। साथ ही नौका विहार का कार्यक्रम भी है। चीन रवाना होने से पहले पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा कि "मैं और राष्ट्रपति चिनफिंग द्विपक्षीय और वैश्विक महत्व के तमाम विषयों पर विचारों का आदान-प्रदान करेंगे। हम खास तौर पर मौजूदा वैश्विक परिवेश के संदर्भ में राष्ट्रीय विकास के मुद्दों पर अपनी प्राथमिकताओं के बारे में भी बात करेंगे। हम रणनीतिक व लंबी अवधि के परिप्रेक्ष्य में भारत-चीन रिश्तों पर बात करेंगे।" मोदी ने जिन लंबी अवधि के लक्ष्यों की बात कही है उसमें रणनीतिक व आर्थिक दोनों होंगे। इसमें चीन की महत्वाकांक्षी बॉर्डर रोड इनिशिएटिव (बीआरआई- विभिन्न देशों को इंफ्रास्ट्रक्चर परियोजनाओं से जोड़ने की योजना), भारत-चीन सीमा का स्थाई समाधान निकालना, भारत के साथ व्यापार घाटे को कम करने जैसे मुद्दे भी होंगे। ये तीन ऐसे मसले हैं जिनकी वजह से आपसी रिश्तों में सबसे ज्यादा तल्खी है। माना जाता है कि उन तीनों मुद्दों पर जितना ज्यादा ये देश आपसी सहमति विकसित करेंगे रिश्तों को सामान्य बनाने में उतनी ही मदद मिलेगी। मोदी-चिनफिंग की वार्ता का स्थल भी अनौपचारिक होगा। गुरुवार को लंच के बाद वुहान स्थित हुबेई प्रांतीय संग्रहालय में दोनों नेता मिलेंगे। वुहान में चीन के पूर्व क्रांतिकारी नेता माओ जेडोंग से जुड़ी कई इमारतें हैं। मोदी को चिनफिंग उन इमारतों की सैर कराएंगे। रात में माओ की पसंदीदा झील ईस्ट लेक के किनारे दोनों नेता वार्ता करेंगे और वहीं रात्रिभोज भी होगा। आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि शनिवार की सुबह झील के किनारे दोनों नेता फिर चहलकदमी करते हुए बातचीत करेंगे। नौका विहार करेंगे और लंच के समय तक वार्ता का समापन होगा। चीन की सरकार पहले ही कह चुकी है कि मोदी का उनकी उम्मीद से भी बेहतर तरीके से स्वागत किया जाएगा। वैसे, अहमदाबाद में चिनफिंग की आगवानी का भारत-चीन के रिश्तों पर कोई बहुत सकारात्मक असर नहीं पड़ा था। असलियत में उसके बाद रिश्तों में काफी उतार देखा गया। लेकिन इस बार दोनों पक्ष उम्मीद लगा रहे हैं कि हाल के महीनों में हर मुद्दों पर जो तनातनी का माहौल बना था उसे अब दूर किया जा सकेगा।

Dakhal News

Dakhal News 27 April 2018


जैन धर्म से 1200 जापानी बने शाकाहारी

  जापानी नागरिकों में जैनधर्म के प्रति आकर्षण बढ़ रहा है। गुजरात के जैन तीर्थों पर आकर बड़ी संख्या में जापानी शाकाहारी बन रहे हैं। 5 साल में प्रदेश के हस्तनापुर, पालिताणा और शंखेश्वर जैनतीर्थों के दर्शन के बाद 1200 जापानी मांसाहारी से शाकाहारी बन गए हैं। इतना ही नहीं, 8 साल के बच्चे से लेकर 30 साल के जापानी युवक-युवतियां पालिताणा आकर दीक्षा महोत्सव में हिस्सा ले रहे है और जैन धर्म के नियमों का पालन कर रहे हैं। ये नवकार मंत्रों का उच्चारण भी करना सीख रहे हैं। भारतीय मूल की जापानी नागरिक तुलशी के मुताबिक, भारत में जैन तीर्थों की यात्रा करने से परम शांति का अहसास हो रहा है। एक अन्य जापानी नागरिक ने बताया, पहले उसका परिवार मांसाहारी था, लेकिन जब वह जापान में जैन धर्म का पालने करे वालों के संपर्क में आया, तब से उसका परिवार शाकाहारी बन गया है। उसके दो बेटे रोज सुबह नवकार मंत्र का पाठ करते हैं।

Dakhal News

Dakhal News 27 April 2018


अब कश्मीर में चलेगी ग्लास सीलिंग वाली ट्रेन

कश्मीर घाटी में बर्फ से ढंके पहाड़ों और दिल को छू लेने वाले नजारों को देखने का एक अलग ही अनुभव आपको जल्द मिलने वाला है। भारतीय रेलवे इस जगह आपको ऐसा अनुभव देने की तैयारी कर रही है, जिसे आप कभी नहीं भुला पाएंगे। इसके लिए रेवले कश्मीर रेल लाइन पर शीशे की छत वाले कोच चलाने को तैयार है। अधिकारियों ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के लिए पिछले साल जून में घोषित विस्टाडोम कोच पहले से ही पहुंच चुका है और इसे मई में ट्रैक पर चलाया जाएगा। अधिकारियों ने बताया कि 40 सीटों का कोच यात्रियों को सुखद अनुभव प्रदान करेगा। आईआरसीटीसी ने जम्मू-कश्मीर पर्यटन विभाग के सहयोग से ग्लास कोच पेश किया है। कश्मीर में विस्टाडोम कोच, मुंबई और गोवा के बीच अराकू घाटी और पश्चिमी घाटों में सफल प्रदर्शन के बाद लाए जा रहे हैं। एसी कोच में बड़े ग्लास की खिड़कियों, कांच की छत, ऑब्जर्वेशन लाउंज और घूमने वाली सीटें लगी होंगी। जो यात्रियों को बारामुल्ला से बनिहाल तक के 135 किमी रेल ट्रैक के रास्ते में लुभावने नजारे और सुंदर प्रकृति को देखने का बेहतरीन अनुभव देंगी। इन कोचों के कोच में ऐसी सीट्स (डबल वाइड रिक्लाइनिंग सीट्स) लगी होंगी, जिससे चारों ओर से बेहतरीन पैनारोमिक व्यू को देखने के लिए 360 डिग्री घुमाया जा सकता है। इस ट्रेन में कांच की छत, स्वचालित स्लाइडिंग दरवाजे, सामान रखने की रैक, मनोरंजन के लिए एलईडी स्क्रीन और जीपीएस सूचना प्रणाली भी लगी हुई है। शुरुआत में 40 सीट वाला एक कोच ट्रेन से जोड़ा जाएगा। बाद में यात्रियों की प्रतिक्रिया के बाद दूसरों कोच लगाने का फैसला किया जाएगा। राज्य पर्यटन विभाग स्थानीय ट्रैवल एजेंटों को भी इसमें शामिल करने की भी योजना बना रहा है, जो कश्मीर आने वाले यात्रियों के लिए पैकेज को कस्टमाइज कर सकते हैं। बताया जा रहा है कि आईआरसीटीसी ने पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए ऐसे 60 कोच बनाने का आदेश दिया है। पिछले साल, रेल मंत्रालय ने मुंबई-गोवा मार्ग पर एक सी-थ्रू विस्टाडोम कोच पेश किया था। ग्लास कोच के अलावा, रेलवे ने पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए वातानुकूलित कोच को माउंटेन रेलवे में चलाने का फैसला किया है। रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने अप्रैल 2017 को आंध्र प्रदेश में एसी विस्टाडोम कोच वाली देश की पहली ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था। ये विशाखापट्टनम से किरंदुल के बीच चली थी। सफर के दौरान ट्रेन हिल स्टेशन अराकू घाटी से भी गुजरी। विस्टाडोम का यह कोच वातानुकूलित था और इसे खासतौर पर डिजाइन किया गया है। इसके बारे में यह दावा किया जा रहा है कि यह भारतीय रेलवे में अपनी तरह का पहला है। रेलवे ने बताया है कि प्रायोगिक आधार पर ट्रेन में इस तरह का एक कोच लगाया गया है, जबकि अन्य कोच जल्द लगाएं जाएंगे। तब प्रभु ने कहा था कि कहा कि विस्टाडोम कोचों को देश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए पहली बार शामिल किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पूर्वोत्तर में भी एक ही मार्ग पर इसी तरह का कोच बाद में लगाया जाएगा। अब इसकी सफलता को देखते हुए अब इसे कश्मीर में भी चलाया जा रहा है।  

Dakhal News

Dakhal News 23 April 2018


उत्तर कोरिया

उत्तर कोरिया में हुए एक भीषण सड़क हादसे में 30 लोगों की मौत हो गई है। यह हादसा देश के हुआंगहाइ रोड पर रविवार को हुआ जब एक टूअर बस दुर्घटनाग्रस्त हो गई। अब तक मिली रिपोर्ट्स के अनुसार हादसे के वास्तविक कारणों का खुलासा फिलहाल नहीं हो पाया है लेकिन कहा जा रहा है कि सड़क पर रिनोवेशन के काम और खराब मौसम इसके लिए जिम्मेदार हैं। हादसे में मारे गए लोगों में बीजिंग स्थित चीनी यात्रा कंपनी का समूह शामिल है। उत्तर कोरिया में चीनी दूतावास ने इस दुर्घटना की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि नॉर्थ कोरिया द्वारा चीनी दूतावास को हुआंगहुई रोड पर हुए भीषण हादसे की जानकारी दी गई है। इसमें ज्यादातर चीनी पर्यटकों के मारे जाने की सूचना है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार नॉर्थ कोरिया में सबसे ज्यादा चीनी पर्यटक आते हैं जो देश में आने वाले कुल विदेशी पर्यटकों का 80 प्रतिशत होते हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 23 April 2018


 ब्रिटिश पीएम और प्रिंस चार्ल्‍स से मिले मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपनी तीन देशो की यात्रा के दूसरे पड़ाव में लंदन पहुंचे। हीथ्रो एयरपोर्ट पर ब्रिटिश विदेश मंत्री ने पीएम मोदी का स्वागत किया। प्रधानमंत्री नेे आज ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा मे से मुलाकात की। दोनों के बीच द्विपक्षीय वार्ता हुई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लंदन में प्रिंस चार्ल्स से मुलाकात की। लंदन में चल रही विज्ञान प्रदर्शनी देखने प्रिंस चार्ल्स के साथ मोदी पहुंचे हैं, जहां भारत के 5000 सालों की वैज्ञानिक उपलब्धियों और आविष्कारों को दर्शाया गया है। इस दौरान ब्रिटिश और भारतीय मूल के वैज्ञानिकों से भी पीएम मिलेंगे। प्रधानमंत्री मोदी की दूसरी ब्रिटेन यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच आयुर्वेदिक चिकित्सा पर भी समझौते पर दस्तखत होंगे। पीएम मोदी की उपस्थिति में अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान और ब्रिटेन के कॉलेज ऑफ मेडिसिन के बीच अनुबंध पर मुहर लगाई जाएगी। द्विपक्षीय कार्यक्रमों की ही कड़ी में प्रधानमंत्री मोदी और ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे क्रिक संस्थान में आयोजित होने वाले कई कार्यक्रमों में भी भाग लेंगे। प्रधानमंत्री कैंसर और मलेरिया इलाज शोध में लगे वैज्ञानिकों से भी मिलेंगे। साथ ही दोनों देशों के आला सीईओ भी बैठक करेंगे। द्विपक्षीय बातचीत के दौरान भारत के भगोड़े अपराधियों की वापसी के संबंध में भी चर्चा की उम्मीद है। भारतीय पीएम मोदी के साथ मुलाकात पर ब्रिटिश पीएम थेरेसा मे ने कहा- मुझे उम्मीद है कि हम भारत और ब्रिटेन दोनों देशों के लोगों के लिए एक साथ मिलकर काम करेंगे। वहीं पीएम मोदी ने कहा कि- मैं इस बात से आश्वस्त हूं कि आज की मुलाकात के बाद दोनों देशों के रिश्तों में एक नई उर्जा आएगी। मुझे खुशी है कि ब्रिटेन अंतरराष्‍ट्रीय सौर गठबंधन का हिस्सा बनने जा रहा है। मुझे विश्वास है कि ये सिर्फ क्लाइमेट चेंज के लिए लड़ाई नहीं है बल्कि भावी पीढ़ी के लिए भी हमारी लड़ाई है। पीएम मोदी ने ये भी कहा कि ये मेरे लिए खुशी की बात है कि भगवान बसावेश्वर की जयंती पर मैं यहां के लोगों से मिलने जा रहा हूं। पीएम ने स्वीडन में कहा कि भारत में रिफॉर्म नहीं, ट्रांसफॉर्मेशन हो रहे हैं स्टॉकहोम में अपने भाषण के दौरान पीएम मोदी ने अपनी सरकार की जमकर उपलब्धियां गिनाईं, उन्होंने मुद्राधन योजना से लेकर आयुष्मान भारत तक की कई योजनाओं के बारे में बताया। उन्होंने कहा, 'स्वीडन में मेरे और मेरे डेलीगेशन के स्वागत-सत्कार के लिए यहां की जनता और सरकार का, विशेष रूप से स्वीडन के राजा और स्वीडन के प्रधानमंत्री श्रीमान लवेन का, मैं हृदय से आभार व्यक्त करना चाहता हूं।' मोदी ने कहा कि लवेन उन्हें एयरपोर्ट पर रिसीव करने आए और बाद में होटल तक छोड़ने भी गए। पीएम मोदी ने कहा पिछले 4 वर्षों में हमारे द्वारा एक के बाद एक ऐसे कदम उठाए गए हैं, जिनसे भारत में दुनिया की आशा और विश्वास बढ़े हैं। पीएम ने कहा कि भारत अब परिवर्तन के दौर से गुजर रहा है। भारत में रिफॉर्म नहीं, ट्रांसफॉर्मेशन हो रहे हैं और हम भारत को ट्रांसफॉर्म करके रहेंगे। मैरी कॉम और साइना जैसी बेटियों की सफलता पर हम सबका सीना गर्व से चौड़ा हो जाता है।' प्रधानमंत्री ने कहा, 'आज भारत परिवर्तन के दौर से गुजर रहा है। सबका साथ सबका विकास के ध्येय के साथ चार साल पहले हमें अभूतपूर्व बहुमत मिला था और हमने इसके लिए भरसक प्रयास किया है। हमने भारत का सम्मान बढ़ाने में कोई कसर नहीं रखी है। चाहे योग दिवस हो, आयुर्वेद हो या प्रकृति के साथ विकास का दर्शन हो, आपका साथ भारत को विश्व में एक लीडर को तौर पर स्थापित कर रहा है।'

Dakhal News

Dakhal News 18 April 2018


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

  अपने यूरोप दौरे के पहले चरण में स्वीडन पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को औपचारिक स्वागत के बाद स्वीडन के राजा कार्ल XVI गुस्तफा से मुलाकात की। इस मुलाकात में दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय सहयोग बढ़ाने पर चर्चा हुई। किंग से मुलाकात के बाद पीएम मोदी और स्वीडिश प्रधानमंत्री के बीच द्विपक्षीय वार्ता हुई। इससे पहले सोमवार देर रात स्टॉकहोम एयरपोर्ट पर पीएम मोदी का स्वागत करने के लिए खुद स्वीडिश पीएम स्टीफन लॉवेन प्रोटोकॉल तोड़कर पहुंचे थे। उन्होंने बड़ी गर्मजोशी से पीएम मोदी का स्वागत किया। इसके बाद पीएम मोदी ने उन्हे देखने और स्वागत करने एयरपोर्ट पर आए भारतीय समुदाय के लोगों से भी मुलाकात की। पीएम को देखते ही एयरपोर्ट पर मोदी-मोदी गूंजने लगा। 30 साल में पहली बार है जब कोई भारतीय पीएम स्वीडन की यात्रा पर पहुंचा है। पीएम मोदी के इस दौरे पर दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को गहरा बनाने के साथ ही विभिन्न क्षेत्रों में निवेश को लेकर सहमति बन सकती है। पीएम मोदी आज कई बैठकों में शामिल होंगे। इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कॉमनवेल्थ देशों की बैठक में हिस्सा लेने के लिए ब्रिटेन रवाना हो जाएंगे।  

Dakhal News

Dakhal News 17 April 2018


पाकिस्तान और अफगान सैनिक भिड़े, 6 की मौत

  अफगानिस्तान और पाकिस्तान की सीमा पर दोनों देशों के जवानों की आपस में भिड़ंत हो गई। बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी सेना सीमा पार कर पूर्वी अफगानिस्तान के खोस्त प्रांत में घुस गई थी। इस पर अफगान सेना ने भी मोर्चा संभाला और जवाबी कार्रवाई शुरू कर दी। दोनों ओर से गोलीबारी में कम से कम छह लोगों की मौत हो गई। इस घटना से दोनों देशों के बीच तनाव और बढ़ गया है। खोस्त के कार्यवाहक पुलिस प्रमुख कर्नल अब्दुल हन्नान जरदान ने बताया कि कम से कम एक अफगान नागरिक और दो पाकिस्तानी सैनिकों की मौत हुई है। दो पाकिस्तानियों के शव पाकिस्तान के जनजातीय इलाके के पास सीमा के अफगान इलाके की ओर मिले हैं। तीन अन्य नागरिक भी घायल हुए हैं। खोस्त के प्रांतीय गवर्नर के प्रवक्ता तालिब मंगल ने घटना की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि झड़प में दो अफगान नागरिक और चार पाकिस्तानी सैनिक मारे गए हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के दो सैनिकों को अफगानिस्तान की जमीन पर हिरासत में लिया गया है। पाकिस्तान की सेना ने बताया कि उसके अर्धसैन्य बल फ्रंटियर कोर के जवान सीमा पर सामान्य निगरानी कर रहे थे तभी अफगानिस्तान की ओर से उन पर गोलियां दागी गईं। इनमें से दो की मौत हो गई और पांच अन्य घायल हो गए। पाक सेना ने यह नहीं बताया कि उसने क्या जवाबी कार्रवाई की। दोनों देशों को 2400 किलोमीटर लंबी डूरंड सीमा रेखा अलग करती है। इसे 1896 में तत्कालीन ब्रिटिश शासकों ने खींचा था। अफगानिस्तान इस अंतरराष्ट्रीय सीमा को मानने से इनकार करता है। यही वजह है कि पाकिस्तान द्वारा इस सीमा पर बनाए जा रहे बंकरों और चौकियों का वह लगातार विरोध करता रहता है। दोनों देशों के बीच तनाव का यह बड़ा कारण है। इसी विवाद की वजह से दोनों देश एक-दूसरे पर सीमावर्ती क्षेत्र में आतंकियों पर कार्रवाई नहीं करने के आरोप लगाते रहते हैं।

Dakhal News

Dakhal News 16 April 2018


तालिबान-हक्‍कानी नेटवर्क

  अमेरिका ने एक बार फिर पाकिस्‍तान पर आतंकवादियों को शरण देने का आरोप लगाया है। अमेरिका के सेना प्रमुख ने कहा है कि तालिबान और हक्कानी नेटवर्क की पाकिस्तान की सीमा में सुरक्षित पनाहगाह हैं और अगर पाक अपनी जमीन पर इसी तरह आतंकवाद को आश्रय देता रहा तो अफगानिस्तान में आंतकवाद पर लगाम लगाना मुश्किल होगा। अमेरिका राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने भी इससे पहले पाकिस्‍तान पर आतंकियों को सुरक्षित पनाहगाह उपलब्‍ध कराने का आरोप लगाया था। अमेरिकी सेना के चीफ ऑफ स्टाफ जनरल मार्क ए मिली ने कांग्रेस की सुनवाई के दौरान सांसदों को यह जानकारी दी। जनरल मिली ने कहा, 'ऐसे किसी आतंकवाद को मिटाना बहुत मुश्किल है, जिसकी किसी अन्य देश में सुरक्षित पनाहगाह हो। इस समय तालिबान, हक्कानी और अन्य संगठन ऐसा ही कर रहे हैं। असल में इनके पाकिस्तान में सुरक्षित ठिकाने हैं। पाकिस्तान यदि इन आतंकवादी समूहों के खिलाफ कोई कदम नहीं उठाता है, तो इनको खत्‍म करना बेहद मुश्किल है।' सीनेट की सशस्त्र सेवा समिति के समक्ष सुनवाई के दौरान उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान में आंतकवाद को समाप्त करने के लिए आंतकवाद के खतरे को कम करना होगा, जिसे आंतरिक सुरक्षा बल नियमित रूप से कर सकते हैं। जनरल मिली ने कहा, 'यह करने के लिए आप को अनिवार्य रूप से कई काम करने होंगे। यह जरूरी है कि पाकिस्तान आतंकवाद पर लगाम लगाने में हमारा साथ दे। यह क्षेत्रीय समाधान है। यह पाकिस्तान को शामिल करने वाली क्षेत्रीय रणनीति का हिस्सा है।' मेलजोल के संबंध में प्रश्न पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान सरकार विपक्षी गुटों के साथ मिल कर एक तरह की राजनीतिक सुलह करने की अब सही दिशा पर चल रही है और अमेरिका इस प्रयास का समर्थन करता है। ये भी एक समाधान हो सकता है। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान में सैनिकों की मौजूदगी अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा के हित में है।  

Dakhal News

Dakhal News 13 April 2018


सुप्रीम कोर्ट -कठुआ रेप केस पर लिया संज्ञान

  कठुआ में नाबालिक बच्ची के साथ दुष्कर्म और हत्या के घिनौने कांड के बाद अब इस मामले को लेकर जहां विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं वहीं राजनीतिक बयानबाजी भी शुरू हो चुकी है। इस बीच पूरे घटनाक्रम पर सुप्रीम कोर्ट ने संज्ञान लिया है। सर्वोच्च न्यायालय ने इसके साथ ही नोटिस भी जारी किया है। इस बीच देश में दोषियों को सख्त सजा दिए जाने की मांग उठने लगी है। वहीं दुष्कर्म केस में वकीलों के विरोध मामले पर एक वकील ने सुप्रीम कोर्ट से दखल देने का अनुरोध किया। इसके जवाब में कोर्ट ने शुक्रवार को वकील से कहा, ‘याचिका दाखिल करो तब विचार करेंगे।‘ कोर्ट ने एक नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में जम्मू कश्मीर और कठुआ अधिवक्ता इकाईयों की ओर से आहूत हड़ताल पर न्यायिक संज्ञान लेने के लिए सभी रिकॉर्ड मंगवाए हैं। आठ वर्षीय बच्ची के साथ गैंगरेप के मामले में कई वकीलों ने चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली बेंच के समक्ष इसे मेंशन करते हुए कहा कि कुछ वकील आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करने में बाधा उत्पन्न कर रहे हैं। जिसके जवाब में चीफ जस्टिस ने कहा कि हमें कम से कम अखबार की खबर तो दीजिए ताकि हम स्वत: संज्ञान ले सकें। अब इस बात की पूरी संभावना है कि सुप्रीम कोर्ट कठुआ गैंगरेप मामले पर स्वत: संज्ञान ले सकता है। कठुआ गैंगरेप मामले ने पूरे देश में राजनीतिक भूचाल ला दिया है। आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने से नाराज कठुआ बार एसोसिएशन ने पिछले दिनों हड़ताल भी किया था। बार एसोसिएशन और वकीलों के विरोध की वजह से चार्जशीट दाखिल नहीं हो पाया था।  

Dakhal News

Dakhal News 13 April 2018


सिखों ने बनाया विश्व रिकॉर्ड

न्यूयॉर्क के एक सिख संगठन ने कुछ ही घंटों में अपने समुदाय के लोगों को नौ हजार पगड़ियां बांधकर विश्व रिकॉर्ड बना लिया है। न्यूयॉर्क के प्रसिद्ध टाइम स्क्वायर में सालाना "टर्बन डे" मनाया गया। इस मौके में सिख समुदाय के खिलाफ हिंसा की घटनाओं के प्रति भी जागरूकता का संदेश दिया गया। न्यूयॉर्क में अप्रैल के मध्य में हर साल मनाए जाने वाले बैसाखी के वार्षिक समारोह में सैकड़ों सिख जमा हुए। इस साल सिख समुदाय ने "टर्बन डे" पर विश्व रिकॉर्ड बनाने की ठानी। लिहाजा विगत शनिवार को पूरे दिन चले इस कार्यक्रम में कुल नौ हजार रंग-बिरंगी पगड़ियां बांधी गईं। सिख संगठन के संस्थापक चनप्रीत सिंह ने बताया कि कुछ ही घंटों में हजारों पगड़ियां बांधकर वह बहुत उत्साहित हैं। इस संगठन ने गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स से विश्व रिकॉर्ड बनाने का सर्टीफिकेट भी हासिल कर लिया है। "टर्बन डे" पर सिर्फ सिख समुदाय के लोगों को ही नहीं बल्कि अमेरिकियों, पर्यटकों और अमेरिका भर से टाइम स्क्वायर घूमने आए अमेरिकियों को भी सिख स्टाइल की पगड़ी बांधी गई। पगड़ी बांधते हुए इन लोगों को सिखों की पहचान से भी अवगत कराया गया। ताकि लोग सिखों की संस्कृति से वाकिफ हो सकें। इस आयोजन का मुख्य मकसद यह था कि लोगों को सिखों की संस्कृति, धर्म और उनकी पहचान से अवगत कराया जाए। ताकि 9/11 के आतंकी हमले को दौरान न्यूयॉर्क में सिख समुदाय के लोगों को उनकी पगड़ी के कारण आतंकी मानकर उन पर हमले करने की घटनाएं फिर कभी न दोहराई जाएं।  

Dakhal News

Dakhal News 9 April 2018


राजदूत मलीहा लोधी

  कश्मीर मुद्दों को लेकर पाकिस्तान अपनी पुरानी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। संयुक्त राष्ट्र में पाक की राजदूत मलीहा लोधी ने सुरक्षा परिषद के अध्यक्ष गुस्तावो मेजा-कुआद्रा के सामने एक बार फिर कश्मीर का मुद्दा उठाया। अप्रैल में परिषद की अध्यक्षता का जिम्मा यूएन में पेरु के स्थायी प्रतिनिधि कुआद्रा के पास है। लोधी ने कहा कि लाइन ऑफ कंट्रोल और घाटी में बढ़ते विवाद का असर अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा और शांति पर पड़ सकता है। लोधी ने 'कश्मीर सद्भावना दिवस' के उपलक्ष्य में यूएन-पाक मिशन के पाकिस्तानी और कश्मीरी समुदाय के सदस्यों के साथ भी बैठक की। बैठक से पहले एक ट्वीट में लोधी ने कहा कि पाक हमेशा कश्मीरी भाई-बहनों के संघर्ष का समर्थन करेगा। ऐसा पहला बार नहीं है कि जब पाक ने संयुक्त राष्ट्र में यह मुद्दा उठाया है। पूर्व में वह कश्मीर की तुलना फलस्तीन से कर वहां के नागरिकों के मानवाधिकार हनन का मुद्दा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उठा चुका है। पाक लगातार इस फिराक में है कि यूएन इस मामले में हस्तक्षेप करे, जबकि भारत इस मसले में द्विपक्षीय वार्ता के अपने रुख पर कायम है। यूएन भी द्विपक्षीय वार्ता पर जोर देता रहा है। उल्लेखनीय है कि पिछले हफ्ते भारतीय सैनिकों ने तीन ऑपरेशनों के तहत 13 आतंकी मार गिराए थे। इनमें कुछ लेफ्टिनेंट उमर फयाज की हत्या के दोषी थे। दूसरी ओर अनंतनाग और शोपियन जिले में चार नागरिक और तीन भारतीय जवान शहीद हुए थे।  

Dakhal News

Dakhal News 7 April 2018


सलमान रिहा, मुंबई पहुंचे

  काला हिरण शिकार मामले में जोधपुर सेंट्रल जेल में बंद सलमान खान को बड़ी राहत देते हुए जोधपुर सेशंस कोर्ट ने उन्हें जमानत दे दी है। वह जोधपुर एयरपोर्ट से मुंबई भी पहुँच गए। उनकी रिहाई के ऑर्डर कोर्ट से जारी किए जाने के बाद शाम करीब 5.35 बजे जेल से रिहा कर दिया गया। जेल में ऑफिस बंद होने के चार मिनट पहले ही सलमान की रहाई का ऑर्डर लेकर शेरा पहुंच गए थे। अगर, थोड़ी और देर हो जाती, तो सलमान को सोमवार तक जेल में ही बिताने पड़ते। इस बीच एयरपोर्ट रोड को खाली करा लिया गया था। सलमान की कार के पीछे हजारों की तादात में लोग चल रहे थे। सलमान की एक झलक पाने के लिए लोगों का जुनून देखने लायक था। रास्ते में फूलों की बारिश भी सलमान की कार पर की गई। इससे पहले ही दोनों बहनें अलवीरा और अर्पिता एयरपोर्ट पहुंच चुकी थीं। यहां से उन्हें मुंबई ले जाने के लिए चार्टेड विमान पहले से तैयार रखा गया था। बताते चलें कि सलमान को 50 हजार के निजी मुचलके पर जमानत दी है। सलमान के परिवार के दो लोगों को जेल में जाने की इजाजत दी गई थी। इसके साथ ही सुरक्षा कारणों से कार को जेल परिसर तक ले जाने की इजाजत भी दी गई थी। बताते चलें कि इससे पहले जज साहब कोर्ट रूम में आए और उन्होंने पहले चारों तरफ देखा, छत की निहारा और कुछ देर चुप रहे। उन्हें इस तरह देख पूरे कोर्ट रूम में सन्नाटा पसर गया और इस बीच जज जोशी ने एक लाइन में कहा बेल ग्रांटेड। जज के फैसले के साथ ही कोर्ट रूम में बैठे सलमान के वकीलों के अलावा उनकी बहनों अर्पिता और अल्विरा के चेहरे पर राहत नजर आई। फैसले के बाद बाहर आए सलमान के वकील हस्तीमल सारस्वत ने मीडिया से कहा कि हमें न्याय मिला है। फिलहाल बेल बॉन्ड देने वाले जज मौजूद हैं और अगर वकील वक्त पर बेल बॉन्ड भर देते हैं तो रिलीज ऑर्डर सेंट्रल जेल भेजा जाएगा और सलमान आज ही जेल से बाहर आ सकते हैं। सलमान को जमानत मिलने की खबर बाहर आते ही उनके फैन्स खुशी से झूम उठे, सड़कों पर लोग खुशी मनाते दिखे और सेंट्रल जेल के बाहर भी भीड़ एकत्रित हो गई। सलमान पर यह फैसला पहले लंच के बाद आने वाला था लेकिन लंच खत्म होने के बाद जज रविंद्र जोशी ने संदेश भिजवाया कि अब वो 3 बजे फैसले सुनाएंगे। इससे पहले कोर्ट रूम में सलमान के वकील और सरकारी वकील ने अपनी-अपनी दलीलें पेश कीं जिसके बाद जज जोशी ने लंच के बाद फैसला सुनाने की बात कही थी। इससे पहले सुबह 10.30 बजे कोर्ट लगने के साथ ही जज ने दोनों ही पक्षों को फिर से अपनी दलीलें रखने के लिए कहा। इस दौरान सलमान के वकीलों ने अपनी बात दोहराते हुए कहा कि उन्हें गलत फंसाया जा रहा है। सलमान हर पेशी पर आए हैं आर्म्स एक्ट मामले में भी उन्हें निर्दोष ठहराया गया था ऐसे में उनकी सजा सस्पेंड की जाए। वहीं सरकारी वकील ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि मामला अन्य केसेस से अलग है और इसमें प्रत्यक्षदर्शी भी हैं ऐसे में सलमान को जमानत ना दी जाए क्योंकि वो देषी हैं। दोनों पक्षों को सुनने के बाद जज रविंद्र जोशी ने कुछ देर रूककर कहा कि उनका ट्रांसफर हो चुका है ऐसे में वो केस को लेकर कोई फैसला नहीं दे सकते लेकिन जमानत को लेकर फैसला लंच के बाद सुनाएंगे। जज के ट्रांसफर के बाद सस्पेंस बना हुआ था कि क्या जज रविंद्र जोशी ही सलमान पर फैसला देंगे या फिर किसी अन्य जज को केस ट्रांसफर करेंगे। इससे पहले जब जज रविंद्र जोशी कोर्ट स्थित अपने चैंबर में मौजूद थे, तब यहां उनसे मुलाकात करने के लिए सीजेएम कोर्ट के जज खत्री भी पहुंचे। जज खत्री ने ही सलमान को इस मामले में 5 साल की सजा सुनाई थी। मालूम हो. राजस्थान में शुक्रवार रात एक साथ 87 जजों के तबादले कर दिए। इनमें जोधपुर सेशन कोर्ट के जज रवींद्र कुमार जोशी भी हैं। उनकी जगह चंद्रशेखर शर्मा को सेशन जज बनाया गया है। गौरतलब है कि जज जोशी ने जमानत पर शुक्रवार को फैसला शनिवार तक के लिए सुरक्षित कर लिया था। न्यायिक सूत्रों के मुताबिक, जज शर्मा के कार्यभार संभालने तक जमानत याचिका पर सुनवाई संभव नहीं हो सकेगी। यानी सलमान खान को अभी कई और रातें जेल में काटनी पड़ सकती हैं। सलमान को जोधपुर के निकट कांकणी गांव में एक अक्टूबर, 1998 की रात दो काले हिरण की गोली मारकर हत्या करने के अपराध में गुरुवार को पांच साल जेल और दस हजार जुर्माने की सजा सुनाई गई। यह घटना "हम साथ साथ हैं" फिल्म की शूटिंग के दौरान हुई थी। मामले में सलमान के साथी कलाकार सैफ अली खान, तब्बू, नीलम, सोनाली बेंद्रे और एक स्थानीय व्यक्ति दुष्यंत सिंह भी आरोपित थे, जिन्हें "संदेह का लाभ" देते हुए बरी कर दिया गया है। जोधपुर सेंट्रल जेल में सलमान से मिलने को फिल्मी दुनिया से जुड़े लोगों का पहुंचना शुरू हो गया है। इसी कड़ी में अभिनेत्री प्रीति जिंटा शुक्रवार दोपहर 12ः05 बजे जोधपुर एयरपोर्ट पर उतरकर सीधे सेंट्रल जेल पहुंचीं। सलमान की बहन अलवीरा और अर्पिंता भी जेल में सलमान से मिलने पहुंचीं। नियम के अनुसार जेल में बंद किसी भी कैदी से दिन में एक या फिर दो लोग ही जेल प्रशासन की अनुमति और सभी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद ही मिल सकते हैं, लेकिन जेल प्रशासन ने ना तो प्रीति जिंटा की तलाशी ली और ना ही रजिस्टर में उनके हस्ताक्षर कराए। प्रीति जिंटा को कोई न देख पाए, इसलिए उनकी कार के शीशों पर अखबार लगा दिया गया था। उनकी कार सीधे जेल के मुख्य द्वार तक पहुंची और वह बिना किसी जांच के अंदर चली गईं। बताया जाता है कि प्रीति के साथ पुलिस और जेल प्रशासन के दो अधिकारी भी थे। जोधपुर सेशन कोर्ट में सलमान की जमानत याचिका पर सुनवाई शनिवार तक के लिए टल जाने के बाद उनकी दोनों बहनें अलवीरा और अर्पिंता जेल पहुंचीं। जेल से जुड़े सूत्रों के मुताबिक दोनों बहनों से मिलने के लिए सलमान खान को जेलर के कमरे में लाया गया। दोनों बहनों ने शुक्रवार को कोर्ट की कार्यवाही के बारे में उनको बताया और फिर आगामी रणनीति को लेकर उनसे चर्चा की। जानकारी के अनुसार शुक्रवार सुबह सलमान खान का बॉडीगॉर्ड शेरा और दो अन्य लोग भी जेल पहुंचे थे। फिल्म निर्माता साजिद नाडियावाला के भी जोधपुर पहुंचने की बात कही जा रही है। नियमों को दरकिनार कर इतने लोगों की सलमान खान से मुलाकात कराने को लेकर जेल डीआइजी विक्रम सिंह से जब सवाल किया गया तो वह कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हुए।  

Dakhal News

Dakhal News 7 April 2018


 SC/ST एक्ट

  सुप्रीम कोर्ट के जिस फैसले के खिलाफ सोमवार को देश में बंद के दौरान जमकर हिंसा हुई उसे सर्वोच्च न्यायालय ने यथावत रखा है। कोर्ट ने यह आदेश केंद्र सरकार की उसके फैसले पर दायर पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई करते हुए दिया। हालांकि, इस दौरान कोर्ट ने अपने फैसले को लेकर पैदा हुई उन बिंदुओं को साफ किया है। मंगलवार को केंद्र सरकार की पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने टिप्पणी में कहा कि हम एससी-एसटी एक्ट के खिलाफ नहीं हैं लेकिन किसी निर्दोष को सजा नहीं मिलनी चाहिए। मामले में कोर्ट ने सभी पार्टियों को दो दिन में जवाब दाखिल करने के लिए कहा है वहीं इस मामले में 10 दिन बाद फिर सुनवाई होगी। बता दें कि आज सुबह ही सुप्रीम कोर्ट याचिका पर खुली कोर्ट में सुनवाई के लिए तैयार हो गया। इसके लिए केंद्र सरकार की तरफ से अटॉर्नी जनरल ने जस्टिस एके गोयल से इस मामले में अपील की थी। जिसके बाद जस्टिस गोयल ने कहा था कि इस संबंध में अंतिम फैसला चीफ जस्टिस ही ले सकते हैं। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के एससी-एसटी एक्ट को लेकर दिए गए फैसले को लेकर केंद्र सरकार ने सोमवार को ही पुनर्विचार याचिका दाखिल की थी। सोमवार को याचिका दायर करते हुए सरकार ने जल्द-से-जल्द और खुली अदालत में सुनवाई का आग्रह किया। सरकार का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट का आदेश संविधान के अनुच्छेद 21 में अनुसूचित जाति, जनजाति को मिले अधिकारों का उल्लंघन करता है। 20 मार्च को दिए गए फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने एससी, एसटी एक्ट के दुरुपयोग पर सवाल उठाते हुए तत्काल गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी। कोर्ट के इस फैसले का देशभर के दलित समूहों ने विरोध किया था और इसी कड़ी में सोमवार को भारत बंद बुलाया था जिस दौरान कई राज्यों में हिंसा भड़क गई। इस हिंसा में अकेले मध्य प्रदेश में ही 7 लोगों की मौत हो गई थी। इसके अलावा सैकड़ों लोग घायल हुए व करोड़ों की संपत्ति को नुकसान पहुंचा था।  

Dakhal News

Dakhal News 3 April 2018


संयुक्त राष्ट्र (यूएन) सुरक्षा परिषद

  संयुक्त राष्ट्र (यूएन) सुरक्षा परिषद ने प्रतिबंध के बावजूद उत्तर कोरिया की मदद करने पर 27 शिपिंग कंपनियों सहित एक व्यक्ति का नाम काली सूची में डाल दिया है। मीडिया में इसकी जानकारी शनिवार को दी गई।  उत्तर कोरिया पर नए प्रतिबंधों की घोषणा बीते शुक्रवार को की गई थी। इन प्रतिबंधों का प्रभाव ना केवल उत्तर कोरियाई कंपनियों पर पड़ेगा बल्कि इससे चीन और ताइवान की कंपनियां भी अछूती नहीं रहेंगी। काली सूची में शामिल की गई कंपनियों में 16 उत्तर कोरिया की, पांच हांगकांग, दो-दो चीन व ताइवान की और एक-एक पनामा और सिंगापुर की हैं। यूएन में अमेरिका की राजदूत निक्की हेली ने कहा,"नए कदम यह साफ इशारा करते हैं कि अंतरराष्ट्रीय बिरादरी उत्तर कोरियाई सरकार पर दबाव बढ़ाने के लिए एक है।" शुक्रवार को लगाए गए नए प्रतिबंधों का प्रस्ताव अमेरिका ने ही दिया था, ताकि समुद्र के जरिये उत्तर कोरिया को तेल और कोयले जैसे सामान की तस्करी पर रोक लगाई जा सके। उत्तर कोरिया 2006 से कई प्रकार के अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंधों को झेल रहा है। इससे उसकी अर्थव्यवस्था को काफी नुकसान पहुंचा है।   

Dakhal News

Dakhal News 31 March 2018


चीन का दक्षिण चीन सागर में शक्ति प्रदर्शन

  विवादित दक्षिण चीन सागर क्षेत्र में चीन में लगातार अपनी पकड़ मजबूत कर रहा है। उपग्रह से मिली तस्‍वीरों में नजर आया है कि इस सप्‍ताह चीनी नौसेना के दर्जनों जहाज दक्षिण चीन सागर के हैनान द्वीप पर अभ्‍यास कर रहे हैं। हालांकि चीन द्वारा ने इस सैन्‍य अभ्‍यास को सामान्‍य बताया था। चीनी वायुसेना की ओर से जारी बयान में कहा गया कि रविवार को उसने जापान के दक्षिणी द्वीपसमूहों को पार करके दक्षिण चीन सागर और वेस्टर्न पसिफिक में अभ्यास किया। सैटेलाइट से मिली तस्‍वीरों में दिखाई दे रहा है कि चीन कितने बड़े स्‍तर पर दक्षिण चीन सागर में युद्धाभ्‍यास कर रहा है। ऐसा लग रहा है कि चीन की ओर से किसी जंग की तैयारी की जा रही है। चीनी वायुसेना ने भी अपने बयान में इस तरह के अभ्यासों को युद्ध की तैयारी के लिए सर्वश्रेष्ठ बताया। ज्ञात हो कि राष्ट्रपति शी चिनफिंग की अगुआई में चीन अपनी सेनाओं के आधुनिकीकरण का कार्यक्रम चला रहा है। इसके तहत चीन मुख्य लक्ष्‍य वायुसेना और नौसेना के आधुनिकीकरण पर है। चीनी वायुसेना ने अपने एक बयान में कहा कि इस अभ्यास में H-6K, Su-30 और Su-35 फाइटर प्लेन्स के साथ दूसरे एयरक्राफ्ट्स का इस्तेमाल किया गया। ताइवान के रक्षा मंत्रालय के मुताबिक, चीन ने दक्षिण चीन सागर में युद्धाभ्‍यास के दौरान दर्जनों जहाजों की हलचल देखी गई। लिओनिंग कैरियर समूह ने पिछले हफ्ते ताइवान का दौरा किया था। तस्वीरों को सोमवार को लिया गया, जिनमें नजर आ रहा है कि कम से कम 40 जहाजों और पनडुब्बियां लिओनिंग समूह में शामिल हैं। कुछ विश्लेषकों ने चीन के इस बढ़ती नौसेना के असामान्य रूप से बड़े प्रदर्शन के रूप में वर्णित किया है। कैलिफोर्निया स्थित आधारित मिडलबरी इंस्टीट्यूट ऑफ स्ट्रैटेजिक स्टडीज के एक सुरक्षा विशेषज्ञ जेफरी लुईस ने कहा कि तस्‍वीरें पुष्टि करती हैं कि कैरियर ड्रिल में शामिल हुआ था। उन्‍होंने हैरानी जाते हुए कहा, 'ये अविश्वसनीय तस्वीरें हैं। यह मेरे लिए बड़ी खबर है।' गौरतलब है कि चीन पूरे दक्षिण चीन सागर के क्षेत्र पर अपना दावा करता है, जहां से 5 खरब डॉलर के व्यापार का आयात-निर्यात होता है। इसके अलावा ब्रुनेई, मलेशिया, फिलीपींस, ताइवान और वियतनाम ने भी इस विवादित समुद्री इलाके में अपना दावा करते आ रहे हैं।चीन और फिलीपींस के बीच ये समुद्र विवाद तब से कम हो गया है जब से फिलीपींस के राष्ट्रपति रॉड्रिगो दुतेर्ते जुलाई 2016 में सत्ता में आए और बीजिंग के साथ चीनी व्यापार और निवेश के जरिए संबंधों में सुधार की कोशिश की थी।  

Dakhal News

Dakhal News 27 March 2018


गन कंट्रोल

  अमेरिका में फ्लोरिडा के स्कूल में 14 फरवरी 2018 को हुई फायरिंग में 17 बच्चों की मौत के बाद गन कंट्रोल की मांग को लेकर शुरू हुआ प्रदर्शन शनिवार को ऐतिहासिक मार्च में बदल गया। गन कल्चर के खिलाफ वॉशिंगटन में अब तक का दुनिया का सबसे बड़ा मार्च निकाला गया, जिसमें पांच लाख से ज्यादा लोग शामिल हुए। आपको बता दें कि इससे ज्यादा लोग सिर्फ अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा की शपथ में ही जुटे थे। अमेरिका में कड़ा बंदूक नियंत्रण कानून की मांग को लेकर हुए प्रदर्शन में हजारों लोग जुटे। शनिवार को होने वाली रैली में भाग लेने के लिए देश भर से लाखों लोग पहुंचे। रैली का नेतृत्व पिछले महीने फ्लोरिडा स्कूल नरसंहार में जीवित बचे छात्रों ने किया। इस नरसंहार के बाद से लोगों का गुस्सा चरम पर है। वॉशिंगटन के अलावा पूरे अमेरिका में 700 से ज्यादा जगहों पर प्रदर्शन हुए। ब्रिटेन में लंदन, जापान के टोक्यो, ऑस्ट्रेलिया के सिडनी, भारत में मुंबई समेत दुनिया के 100 शहरों में गन कंट्रोल की मांग को लेकर प्रदर्शन हुए। प्रदर्शनकारियों ने कैपिटोल के समीप प्रदर्शन किया और अमेरिकी कांग्रेस से बंदूक से हो रही हिंसा से लड़ने का आह्वान किया। प्रदर्शनकारियों का लक्ष्य उस कानूनी रुकावट को तोड़ना है जो देश में लंबे समय से बंदूकों की बिक्री पर प्रतिबंध के प्रयासों की राह में रोड़ा बना हुआ है। देश में स्कूलों और कॉलेजों में आए दिन समूह पर गोलीबारी होना आम बात हो गई है।  

Dakhal News

Dakhal News 25 March 2018


UN मानवाधिकार परिषद

  इजरायल के खिलाफ निंदा प्रस्तावों से भड़के अमेरिका ने एक बार फिर जेनेवा स्थित संयुक्त राष्ट्र (यूएन) की मानवाधिकार परिषद से बाहर निकलने धमकी दी है। शनिवार को अमेरिका ने कहा कि उसका धैर्य अब जवाब दे रहा है। मानवाधिकार परिषद ने उत्तर कोरिया, ईरान और सीरिया की निंदा के लिए तीन-तीन प्रस्ताव पारित किए जबकि इजरायल के खिलाफ पांच प्रस्ताव पारित किया। ये प्रस्ताव इस्लामिक सहयोग संगठन के सदस्यों ने परिषद के 'एजेंडा आइटम 7' के तहत पेश किए थे जो इजरायल के लिए चिंताजनक है। यूएन में अमेरिकी राजदूत निक्की हेली ने कहा, 'परिषद ने इजरायल के खिलाफ पक्षपातपूर्ण व्यवहार किया है। उत्तर कोरिया, ईरान और सीरिया के मुकाबले इजरायल से अधिक बुरा बर्ताव कर परिषद खुद अपनी ही हंसी उड़ा रहा है। हमारा धैर्य असीमित नहीं है। संगठन के कदम से साबित हो गया कि यह अब अपनी साख खो चुका है।'  

Dakhal News

Dakhal News 24 March 2018


भारत ने किया सुपरसोनिक मिसाइल ब्रह्मोस का सफल परीक्षण

राजस्थान के पोखरण में गुरुवार सुबह सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस का स्वदेशी सीकर के साथ सफल परीक्षण किया गया। यह सीकर डीआरडीओ और ब्रह्मोस एयरोस्पेस द्वारा मिलकर विकसित किया गया है। मिसाइल के इस परीक्षण के दौरान पोखरण में डीआरडीओ के अधिकारियों के अलावा भारतीय सेना और ब्रह्मोस के अधिकारी भी मौजूद थे। टेस्ट के दौरान सटीक हमला करने में माहिर इस हथियार ने पहले तय टार्गेट पर पिन पॉइंट निशाना लगाया। इससे पहले इस मिसाइल को पहली बार पिछले साल नवंबर में फायटर जेट सुखोई-30 एमकेआई से दागा गया था। भारत सरकार इस मिसाइल को सुखोई में लगाने के लिए काम शुरू कर चुकी है और अगले तीन सालों में कुल 40 सुखोई विमान ब्रह्मोस मिसाइल से लैस हो जाएंगे। माना जा रहा है कि सुखोई में ब्रह्मोस फिट होने से क्षेत्र में एयरफोर्स की ताकत काफी बढ़ जाएगी।  

Dakhal News

Dakhal News 22 March 2018


राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन

  रूस में रविवार को राष्ट्रपति पद का चुनाव होना है। रूसी मतदाता राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को एक और कार्यकाल का मौका देने को तैयार दिख रहे हैं। वह पुतिन को पश्चिम के देशों के खिलाफ खड़े होने का श्रेय देते हैं। जबकि पश्चिमी देश पुतिन को खतरनाक तानाशाह के रूप में देखते हैं। यह चुनाव ऐसे समय में हो रहा है जब रूस अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सीरिया युद्ध और पूर्व रूसी जासूस को जहर देने के मामले में ब्रिटेन के साथ तनाव में उलझा हुआ है। चुनाव सर्वेक्षणों के मुताबिक, 65 वर्षीय पुतिन को शानदार बढ़त है। इस जीत के साथ वह छह साल के एक और कार्यकाल के लिए राष्ट्रपति बन जाएंगे। इस तरह सत्ता में उनका करीब 25 वर्ष पूरा हो जाएगा। ऐसा करने वाले वह जोसेफ स्टालिन के बाद दूसरे रूसी नेता होंगे। चुनाव प्रचार के दौरान पुतिन ने खुद को शत्रु दुनिया में रूस के राष्ट्रीय हितों की रक्षा करने वाला एकमात्र व्यक्ति बताया है। उनके समर्थक सीरिया में रूस के सैन्य दखल और 2014 में यूक्रेन के क्रीमिया क्षेत्र पर कब्जे को पुतिन की देशभक्ति का प्रमाण मानते हैं। नौ मार्च के चुनाव सर्वेक्षण में पुतिन को 69 फीसद मिले थे। जबकि उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी कम्युनिस्ट पार्टी के उम्मीदवार पावेल ग्रुदिनिन को केवल सात फीसद मिले थे। कम मतदान कर सकता है प्रभावित माना जा रहा है कि कम मतदान पुतिन के मुश्किल पैदा कर सकता है। इसके अलावा पुतिन विरोधी रूसी अल्पसंख्यक उनके खिलाफ मतदान के लिए उतर गए तो उसका भी असर पड़ सकता है। कम मतदान से सत्तारूढ़ दल के भीतर पुतिन के कद को नुकसान पहुंचा सकता है।

Dakhal News

Dakhal News 15 March 2018


ट्रंप-किम जोंग में सुलह के संकेत, मई में होगी  के बातचीत

वाशिंगटन से खबर है कि अमेरिका और नॉर्थ कोरिया के बीच तनाव कम होने लगा है और बातचीत के रास्ते खुलने लगे हैं। खबर है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने बातचीत के लिए कहा है और दोनों की मई तक मुलाकात हो सकती है। ट्रंप ने इस मुलाकात के लिए सहमति जता दी है। इस बीच राष्ट्रपति ट्रंप ने एक बड़ी घोषणा की है। उन्होंने शुक्रवार को मीडिया के सामने आकर कहा कि दक्षिण कोरिया, नॉर्थ कोरिया को लेकर एक बड़ा ऐलान करने वाला है। ट्रंप ने यह बात व्हाइट हाउस में जारी मीडिया ब्रिफिंग में आकर उन्होंने कम शब्दों में कहा कि दक्षिण कोरिया बड़ी घोषणा करने वाला है। जब उनसे पूछा गया कि यह घोषणा क्या होगी तो उन्होंने सिर्फ इतना कहा कि उत्तर कोरिया को लेकर यह घोषणा होगी। ट्रंप के इस बयान के बाद अब पूरी दुनिया की नजरें उत्तर और दक्षिण कोरिया पर टिकीं हुईं हैं।

Dakhal News

Dakhal News 9 March 2018


 आपातकाल के बावजूद श्रीलंका में बौद्धों का मुसलमानों पर हमला

श्रीलंका में बौद्धों की भीड़ ने अल्पसंख्यक मुसलमानों की मस्जिदों और दुकानों पर मंगलवार रात हमले किए। देश में शांति कायम करने के लिए लगाए गए आपातकाल के बावजूद ये हमले हुए। पुलिस ने बताया कि कैंडी में अनिश्चितकालीन कर्फ्यू लागू है। लेकिन मंगलवार रात हिंसा की कई घटनाएं हुईं। इनमें तीन पुलिस अधिकारी घायल हो गए। लेकिन घायल नागरिकों की संख्या का पता नहीं चल पाया। कैंडी में मुसलमानों के साथ झगड़े में बौद्ध युवक की मौत के बाद रविवार रात से हिंसा शुरू हुई और श्रीलंका के कई हिस्सों में फैल गई। हिंसा पर काबू पाने के लिए राष्ट्रपति मैत्रिपाल सिरीसेन ने मंगलवार को सात दिनों के आपातकाल की घोषणा की। श्रीलंका के वरिष्ठ मंत्री शरत अमुनुगामा ने कहा कि कैंडी में ताजा हिंसा क्षेत्र से बाहर के लोगों ने शुरू की है। श्रीलंका में साल भर से बौद्ध और मुस्लिम समुदाय के बीच तनाव बढ़ रहा था। बौद्धों का आरोप है कि मुसलमान लोगों को जबरन इस्लाम कुबूल करवा रहे हैं और बौद्ध पुरातात्विक स्थलों को तोड़ रहे हैं। कुछ बौद्ध राष्ट्रवादी म्यांमार से आए रोहिंग्या मुसलमानों को श्रीलंका में शरण देने का भी विरोध कर रहे हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 7 March 2018


केपी शर्मा ओली  दूसरी बार नेपाल के पीएम बने

  खबर काठमांडू से । सीपीएन-यूएमएल के अध्यक्ष केपी शर्मा ओली गुरुवार को दूसरी बार नेपाल के प्रधानमंत्री बने। नेपाल की राष्ट्रपति बिद्या देवी भंडारी ने 65 वर्षीय ओली को देश का 41वां प्रधानमंत्री नियुक्त किया। करीब दो महीने पहले ऐतिहासिक संसदीय और स्थानीय चुनावों में वाम गठबंधन ने सत्तारूढ़ नेपाली कांग्रेस को भारी शिकस्त दी थी। नवनियुक्त नेपाली प्रधानमंत्री ओली चीन समर्थक माने जाते हैं। वह 11 अक्टूबर 2015 से तीन अगस्त 2016 तक नेपाल के प्रधानमंत्री रह चुके हैं। प्रधानमंत्री पद के लिए ओली की उम्मीदवारी का यूसीपीएन-माओवादी, राष्ट्रीय प्रजातंत्र पार्टी नेपाल और मधेशी राइट्स फोरम-डेमोक्रेटिक के अलावा 13 अन्य छोटे दलों ने समर्थन किया। इससे पहले पूर्व प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा ने राष्ट्र को संबोधित किया और राष्ट्रपति को अपना इस्तीफा सौंप दिया। देउबा पिछले साल छह जून को वाम गठबंधन का हिस्सा सीपीएन (माओवादी सेंटर) के समर्थन से प्रधानमंत्री चुने गए थे। गौरतलब है कि ओली के नेतृत्व वाले सीपीएन-यूएमएल और प्रचंड के नेतृत्व वाले सीपीएन-माओवादी सेंटर के वाम गठबंधन ने संसद की 275 सीटों में 174 सीटों पर जीत दर्ज की। उसने संसद के उच्च सदन की 59 सीटों में 39 सीटें हासिल कीं। इस ऐतिहासिक प्रांतीय और संसदीय चुनाव के बाद लोगों को नेपाल में राजनीतिक स्थिरता की उम्मीद है।

Dakhal News

Dakhal News 16 February 2018


हाउस ऑफ रिप्रेजेंटिव्स

    वाशिंगटन में  हाउस ऑफ रिप्रेजेंटिव्स ने यौन उत्पीड़न और दुर्व्यवहार से जुड़ा विधेयक पास कर दिया है।यह कदम सोशल मीडिया मूवमेंट ‘मी टू’ और सांसदों पर इस मामले में आरोपों को देखते हुए उठाया गया है।  

Dakhal News

Dakhal News 8 February 2018


 फ्लू अमेरिका मेंअब तक 53 की मौत

अमेरिका में फ्लू का कहर जारी है। जनवरी के अंतिम हफ्ते में ही करीब 16 बच्चों की जान जा चुकी है। सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल(सीडीसी) के मुताबिक फ्लू से मरने वालों की संख्या बढ़कर 53 हो गई है। प्रत्येक एक लाख की जनसंख्या में करीब 51 लोग फ्लू से पीड़ित हैं। इससे पहले 2014-2015 में फ्लू के फैलने से 710,000 लोग अस्पताल में भर्ती कराए गए थे। 148 लोगों की जान गई थी। इंफ्लूएंजा ए (एच3एन) से ज्यादा बुजुर्ग और बच्चे प्रभावित हैं। सीडीसी के डॉ. एने सूशा ने कहा, 'हमें आशंका है कि इस बार के परिणाम 2014-2015 से ज्यादा खतरनाक हो सकते हैं।' मालूम हो कि पिछले दस हफ्ते में फ्लू बीमारी अमेरिका के 48 राज्यों में फैल चुकी है। सीडीसी ने लोगों को सलाह दी है कि जो फ्लू से पीड़ित हैं, वे घर में ही रहें जिससे संक्रमण दूसरों में ना फैले। इसके अतिरिक्त सभी लगातार हाथ धोएं और खांसते व छींकते समय मुंह ढक कर रखें। जिन्होंने अब तक फ्लू का टीका नहीं लगवाया है, वे जल्द से जल्द टीका लगवा लें।    

Dakhal News

Dakhal News 3 February 2018


अफगानिस्तान तालिबान

  अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के तल्ख तेवर और नाटो गठबंधन के व्यापक सैन्य अभियान के बावजूद अफगानिस्तान में तालिबान लगातार अपने पैर पसारता जा रहा है। बीबीसी द्वारा जारी किए गए सर्वे के मुताबिक देश के 70 फीसद हिस्से पर खुले तौर पर तालीबान सक्रिय है। इसमें भी चार फीसद इलाका ही पूरी तरह उसके कब्जे में है। आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आइएस) की मौजूदगी भी देश के 30 जिलों में पाई गई है, लेकिन इसमें से कोई भी जिला पूरी तरह उसके नियंत्रण में नहीं है। बीबीसी की ओर से किया गया यह अध्ययन अफगानिस्तान के सभी जिलों में 1200 से ज्यादा लोगों से की गई बातचीत पर आधारित है। इस आकलन में नाटो के अनुमान से ज्यादा इलाके में तालिबान की मौजूदगी पाई गई है। नाटो के मुताबिक अक्टूबर, 2017 तक अफगानिस्तान के 407 जिलों में से महज 44 फीसद ही तालिबान के प्रभाव या कब्जे में हैं। बीबीसी के अनुसार, अफगान सरकार का 122 जिलों या देश के करीब 30 फीसद हिस्से पर नियंत्रण है। इसका सबसे बड़ा उदाहरण है कि काबुल और दूसरे कई बड़े शहर आतंकी हमलों से प्रभावित हैं। हमलों को करीब के इलाकों या स्लीपर सेल द्वारा अंजाम दिया जाता है। पिछले कुछ दिनों से काबुल में कई आतंकी हमले हुए। तालिबान ने 20 जनवरी को काबुल के इंटरकॉन्टिनेंटल होटल को निशाना बनाया था। इसमें 25 लोग मारे गए थे। इसके बाद 27 जनवरी को शहर पर आत्मघाती हमला किया था। इसमें 100 से ज्यादा लोगों की जान गई थी।

Dakhal News

Dakhal News 1 February 2018


एंजेलिना जोली

लॉस एंजिलिस में बच्चों और महिलाओं के हितों की बात करने वाली मशहूर हॉलीवुड सुपरस्टार और संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी मानवाधिकार की गुडविल एंबैसेडर एंजेलिना जोली ने नाटो (नॉर्थ अटलांटिक ट्रिटी ऑर्गनाइजेशन) मुख्यालय का दौरा कर युद्धग्रस्त इलाकों में यौन हिंसा पर चिंता जताई है। नाटो के प्रतिनिधियों और संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी के साथ आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस की बैठक में जोली ने कहा, युद्ध प्रभावित इलाकों में महिलाओं और बच्चो के साथ हो रहे यौन हिंसा के खिलाफ लड़ाई पर ध्यान केंद्रित करना होगा। एंजेलिना ने चिंता जताते हुए कहा कि संकटग्रस्त इलाकों में महिलाओं और बच्चों के साथ हिंसा खासकर यौन हिंसा काफी बढ़ रही है। इन क्षेत्रों में रेप एक तरह से सैन्य और राजनीतिक लक्ष्य को प्राप्त करने का हथियार बन गया है। ऐसे हालात युवक-युवतियों और महिलाओं- लड़कियों को बुरी तरह से प्रभावित कर रहे हैं। जोली ने उम्मीद जताई कि संयुक्त राष्ट्र की तरफ से उनके लिए अच्छे प्रशिक्षण, रिपोर्टिंग, मॉनीटरिंग और जागरुकता के लिए अभियान चलाया जाएगा। इससे संकटग्रस्त इलाकों में समस्याओं का सामना कर रहे महिलाओं और बच्चों के लिए बेहतर रास्ता तैयार होगा। नाटो सेक्रेटरी जनरल जेन्स स्टोलटेनबर्ग ने कहा कि जोली महिलाओं को सशक्त बनाने और यौन हिंसा के खिलाफ लड़ाई के लिए हमेशा से एक मजबूत आवाज बन कर उभरी हैं। वे अपने महान नेतृत्व क्षमता के कारण एकदम सही प्रवक्ता हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 1 February 2018


भगत सिंह को निशान-ए-हैदर  देने की मांग

शहीद-ए-आजम भगत सिंह को पाकिस्तान का सर्वोच्च वीरता पुरस्कार "निशान-ए-हैदर" मिलना चाहिए। साथ ही लाहौर के शादमान चौक पर उनकी एक प्रतिमा लगाई जानी चाहिए। यह मांग पाकिस्तान के एक संगठन की ओर से की गई है। यह संगठन स्वतंत्रता के इस महान सेनानी को कोर्ट में निर्दोष साबित करने के लिए काम कर रहा है। शहीद भगत सिंह को दो अन्य स्वतंत्रता सेनानियों राजगुरु और सुखदेव के साथ 23 मार्च, 1931 को 23 साल की उम्र में लाहौर में फांसी दी गई थी। इन पर आरोप लगाया गया था कि उन्होंने अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ षड्यंत्र रचा और ब्रिटिश पुलिस अधिकारी जॉन पी सांडर्स की हत्या की। पाकिस्तान की पंजाब प्रांत की सरकार को दी अपनी ताजा अर्जी में भगत सिंह मेमोरियल फाउंडेशन ने कहा है कि भगत सिंह ने उपमहाद्वीप की स्वतंत्रता के लिए अपना बलिदान दिया था। याचिका के अनुसार, "पाकिस्तान के संस्थापक कायदे आजम मोहम्मद अली जिन्ना ने भगत सिंह को यह कहते हुए श्रद्धांजलि दी थी कि उपमहाद्वीप में उनके जैसा कोई वीर शख्स नहीं हुआ है। भगत सिंह हमारे नायक हैं। वह मेजर अजीज भट्टी की तरह ही सर्वोच्च वीरता पुरस्कार (निशान-ए-हैदर) पाने के हकदार हैं, जिन्होंने भगत सिंह को हमारा नायक तथा आदर्श घोषित किया था।" फाउंडेशन ने शादमान चौक का नाम भगत सिंह चौक करने की भी मांग की। फाउंडेशन ने कहा, "पंजाब सरकार को इसमें और विलंब नहीं करना चाहिए। जो देश अपने नायकों को भुला देते हैं, वे धरती से गलत शब्दों की तरह मिट गए हैं।"

Dakhal News

Dakhal News 20 January 2018


नापाक फायरिंग में जवान समेत 3 की मौत

जम्मू संभाग में अंतर्राष्ट्रीय सीमा से लेकर नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान की ओर से गोलाबारी जारी है। पाकिस्तान कई चौकियों और रिहायशी इलाकों को निशाना बना रहा है। इसमें एक जवान शहीद हुआ है साथ ही दो और लोगों की मौत हो गई जबकि एक दर्जन के करीब लोग घायल हो गए। इसे मिलाकर अब तक तीन जवानों सहित आठ की मौत हो चुकी है। पैंतीस के करीब लोग घायल हो गए हैं। वहीं अखनूर सेक्टर में भी सभी स्कूलों को बंद कर दिया है। सीमावर्ती क्षेत्रों से लोगों का पलायन जारी है। गोलाबारी में कई जानवर भी मारे गए हैं। पाकिस्तान ने पूरी रात गोलाबारी जार रखी। शनिवार की सुबह अरनिया सेक्टर में कुछ देर के लिए गोलाबारी जरूर थमी लेकिन जैसे ही कुछ लोगों ने गांवों का रुख किया। फिर से गोलाबारी शुरू हो गई। वहीं रामगढ़ सेक्टर में दो लोगों की मौत हो गई। सुबह करीब साढ़े नौ बजे कपूरपुर में पंद्रह साल के किशोर गारा राम निवासी कपूरपुर की मौत हो गई। इसी जगह पर दो अन्य लोग भी घायल हुए हैं। इसी सेक्टर में दोपहर करीब बार बजे गार सिंह पुत्र खुशविंद्र सिंह की भी गोलाबारी में मौत हो गई। इसमें पांच अन्य लोग घायल भी हो गए। घायलों की पहचान अठारह वर्षीय शीतल, पांच वर्षीय जैमल सिंह, तीस वर्षीय सोनी देवी, चालीस वर्षीय मुंशी राम और बीस साल के विनोद कुमार के रूप में हुई है। पांचों घायल सुचेतगढ़ के रहने वाले हैं। वहीं अखनूर सेक्टर के कानाचक्क में एसएसबी का एक जवान लालू राम पुत्र सिया राम निवासी उत्तर प्रदेश घायल हो गया। कानाचक्क में ही पैंतीस वर्षीय बिल्लु पुत्र मनसा और राधा कृष्ण पुत्र बंसी दास भी घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए राजकीय मेडिकल कालेज अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। अखनूर सेक्टर के परगवाल, गडखाल व अन्य क्षेत्रों को सुरक्षा के लिहाज से सील किया गया है। गोलाबारी को देखते हुए किसी को भी जाने की अनुमति नहीं है। प्रशासन ने इस क्षेत्र में सभी स्कूलों को बंद कर दिया है। वहीं सीमावर्ती क्षेत्रों से लोगों का पलायन जारी है। अरनिया, सई खुर्द, पिंडी चाढ़का, त्रेवा, चक्क गोरिया, चंगिया, चानना, जबोबाल, चक्क् जंदराल, कोटली काजिया सहित कई गांवों से लोगों ने पलायन कर दिया है। इससे पहले शुक्रवार को पाकिस्तान द्वारा किए गए संघर्ष विराम उल्लंघन में 22 नागरिक घायल हो गए थे वहीं भारतीय सेना का एक जवान भी शहीद हुआ था। हालांकि, भारतीय सेना ने इसका करार जवाब दिया था और जवाबी कार्रवाई में सीमा पार भारी नुकसान की सूचना है। पाकिस्तान ने शुक्रवार को 50 से ज्यादा चौकियों व 100 से अधिक गांवों पर जमकर मोर्टार दागे। अंतरराष्ट्रीय सीमा से पुंछ में नियंत्रण रेखा तक 18 सेक्टरों में पाकिस्तान की ओर से की जा रही भारी गोलाबारी से युद्ध जैसे हालात बन गए। इलाके में तनाव का माहौल है और लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है।  

Dakhal News

Dakhal News 20 January 2018


ज्वालामुखी फटा , 15 हजार लोगों ने छोड़ा घर

फिलीपींस के लेगाजपी शहर में ज्वालामुखी से लावा निकलना शुरू हो गया है। इसे लेकर स्थानीय प्रशासन ने अलर्ट जारी कर दिया है। फिलीपीन इंस्टीट्यूट ऑफ वॉल्केनोलॉजी एंड सिस्मोलॉजी ने मंगलवार को कहा कि माउंट मेयोन से लावा निकलना शुरू हो गया है, जोकि क्रेटर से दो किलोमीटर तक फैल चुका है और उससे निकलने वाली राख आसपास के गांवों तक पहुंचने लगी है। वैज्ञानिकों की मानें तो ज्वालामुखी से निकलने वाला लावा और जहरीला धुंआ लोगों की सेहत के लिए काफी नुकसानदायक है। लावा निकलने की वजह से आसपास के इलाके से 15 हजार लोग सुरक्षित स्थानों पर चले गए हैं। स्थानीय प्रशासन ने अलर्ट लेवल तीन पर रखा है। ऐसे में खतरा अभी टला नहीं है और आने वाले दिनों में इस ज्वालामुखी में विस्फोट होने की आशंका है। जिस स्थान पर लावा फूटना शुरू हुआ है, वो फिलीपींस की राजधानी मनीला से 340 किलोमीटर दूर एलबे प्रांत में है। पिछले पांच सौ सालों में ये ज्वालामुखी पचास बार फूट चुका है। 2013 में पांच पर्वतारोहियों की इसकी चपेट में आने से मौत हो गई थी। फिलीपींस में ऐसे ही 23 ज्वालामुखी सक्रिय हैं। इतिहास में सबसे बड़ा ज्वालामुखी विस्फोट 1991 में हुआ था, जिसमें 850 लोगों की मृत्यु हो गई थी। ज्वालामुखी विस्फोट में लाखों लोगों से अधिक बेघर भी हुए थे।

Dakhal News

Dakhal News 16 January 2018


अमेरिकी ड्रोन हमले में IS के 17 आतंकी ढेर

  अफगानिस्तान के नंगरहार प्रांत में अमेरिकी सेना द्वारा किए गए ड्रोन हमले में 17 आतंकियों के मारे जाने की खबर है। कि मारे गए आतंकी इस्लामिक स्टेट के हैं, जो अफगानिस्तान में अपनी जड़ें मजबूत करने की कोशिशों में जुटे हुए थे। ये हमला रविवार को प्रांत के हास्का मीना और अचिन जिले में किया गया। 17 आतंकियों में से हसाका मीना में 14 आईएस आतंकी, जबकि अचिन में 3 आईएस आतंकी मारे गए। एक अमेरिकी रिपोर्ट के मुताबिक हाल ही के कुछ महीनों में अफगानिस्तान के हालात काफी बिगड़े हैं। नांगरहार प्रांत में अमेरिकी सुरक्षाबलों के साथ ही नाटो सेना पर भी लगातार हमले हो रहे हैं। इस इलाके में आईएस अपने को मजबूत करना चाह रहा है। यहां अमेरिकी सुरक्षाबल आतंकवाद के खिलाफ चल रही लड़ाई में अफगान सेना को ट्रेनिंग देने के साथ ही अभियान में भी मदद कर रहे हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 15 January 2018


भूखे लोग भोजन लूट रहे हैं वेनेजुएला में

  वेनेजुएला इन दिनों खाद्य पदार्थों की भारी किल्लत से जूझ रहा है। हालात यह है कि भूखे लोग दुकानों को लूट रहे हैं। जानवरों का शिकार कर रहे हैं। बीते दो दिनों लूटपाट की घटनाओं में चार लोगों की मौत हो गई। 15 घायल हैं। इस तेल समृद्ध देश में खाना लूटने को लेकर भड़की हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़कर छह हो चुकी है। बीते दिसंबर से वेनेजुएला में खाने की चीजों का बड़ा संकट खड़ा हो गया है। विपक्षी पार्टी के सांसद कार्लोस पैपरोनी ने बताया कि पश्चिमी वेनेजुएला के अपरेय शहर में लुटेरों ने कई दिनों तक दुकानों और भंडारों को निशाना बनाया। वेनेजुएला की आर्थिक हालत खस्ता है। तेल के घटते दाम, बढ़ती मुद्रास्फीति और भ्रष्टाचार ने देश को काफी नुकसान पहुंचाया है। बीते बुधवार को एक ट्रक में आटा और मुर्गों को लेकर जा रहे 19 साल के युवक को लुटेरों ने गोली मार दी और सारा सामान लूट लिया। यह घटना गुआनारे की है। एक रिपोर्ट के अनुसार वेनेजुएला के लगभग 82 फीसद निवासी गरीबी में जी रहे हैं। इनमें भी 51 प्रतिशत लोग तो ठीक से अपना पेट भी नहीं भर पाते हैं। हालांकि सरकार इस आंकड़े से सहमत नहीं है। कच्चे तेल के दाम में तेजी से हुई गिरावट के बाद से ही वेनेजुएला का आर्थिक संकट गहराता चला गया। स्थिति यह है कि देश का प्रशासनिक तंत्र ध्वस्त हो चुका है। राष्ट्रपति निकोलस मादुरो हालात को नियंत्रित कर पाने में बुरी तरह विफल रहे हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 13 January 2018


कैरेबियन आइलैंड

  कैरेबियन आइलैंड में भीषण भूकंप आया है। यूएस जियोलॉजीकल सर्वे के अनुसार रिक्टर स्कैल पर इसकी तीव्रता 7.8 मापी गई है। यह भूकंप जमाइका के पश्चिम में स्थित होंडरस तट के करीब आया है। भूकंप का केंद्र 10 किमी की गहराई में बताया गया है। इस तेज भूकंप के बाद फिलहाल अभी तक किसी तरह के जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है लेकिन सुनामी की चेतावनी जारी कर दी गई है। नेशनल सुनामी वॉर्निंग सेंटर के अनुसार सुनामी की लहरें तीन फीट ऊंची हो सकती है और इसकी चपेट में क्यूबा, होंडरस, जमाइका और मैक्सिको आ सकते हैं। अधिकारियों के अनुसार अमेरिका के वर्जिन आइलैंड और प्यूर्टो रिको भी सुनामी की जद में हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 10 January 2018


बलूचिस्तान प्रांत

  पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत की असेंबली के पास मंगलवार को आत्मघाती हमले में चार पुलिसकर्मियों सहित छह लोगों की मौत हो गई। 18 लोग घायल हुए हैं। उन्हें अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। हमले की जिम्मेदारी प्रतिबंधित आतंकी संगठन तहरीक-ए-तालिबान ने ली है। धमाके के कुछ घंटे पहले ही राजनीतिक अस्थिरता के कारण प्रांत के मुख्यमंत्री सनाउल्ला जहीरी ने अपने पद से इस्तीफा दिया था। असेंबली के सत्र के मद्देनजर इस इलाके में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात था। जानकारी के अनुसार, मोटरसाइकिल पर सवार एक आत्मघाती हमलावर क्वेटा के उच्च सुरक्षा वाले रेड जोन इलाके जरघून रोड में फ्रंटियर कांस्टेबुलरी ट्रक में घुस गया और विस्फोट कर दिया। विस्फोटस्थल प्रांतीय असेंबली की इमारत से मात्र 300 मीटर ही दूर है। बलूचिस्तान के मुख्यमंत्री सनाउल्ला जहीरी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के लिए मंगलवार को असेंबली का विशेष अधिवेशन बुलाया गया था, लेकिन उनके इस्तीफे के बाद इसे टाल दिया गया। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, "साफतौर पर यह आतंकी घटना है, लेकिन हम अभी यह पता लगा रहे हैं कि क्या यह आत्मघाती हमला ही था?" क्वेटा के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी फारूक अतीक ने इस बात की पुष्टि की कि पुलिस वाहन को निशाना बनाकर धमाका किया गया था। उनका कहना है कि चूंकि बचाव अभियान अभी चल रहा है, इसलिए हताहतों की संख्या बढ़ सकती है। अस्पताल के सूत्रों ने भी छह लोगों की मौत की पुष्टि की है।   

Dakhal News

Dakhal News 10 January 2018


 चीन में अब तक 13 लोगों की मौत

  अमेरिका की तरह चीन भी बर्फीले तूफान की चपेट में आ गया है। पूर्वी चीन के अनहुई प्रांत में बर्फीले तूफान की वजह से पिछले तीन दिनों में 13 लोगों की मौत हो गई। यह वर्ष 2008 के बाद से अब तक का सबसे भयंकर बर्फीला तूफान है। तूफान में अभी तक इस प्रांत के करीब 10 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं। तूफान से अर्थव्यवस्था को प्रत्यक्ष तौर पर 19 करोड़ डॉलर का नुकसान पहुंचा है और कृषि क्षेत्र को 12 करोड़ 20 लाख डॉलर का नुकसान हुआ है। अनहुई के अलावा हेनान, हुबेइ, हुनान, जिआंग्सु और शांक्सी प्रांतों में भी भारी बर्फबारी हुई है। राजधानी हेफेइ समेत नौ शहरों ने बर्फबारी के कारण इमरजेंसी की घोषणा की है। चीन के साथ ही अमेरिका और यूरोप में भी तूफान ने तबाही मचा रखी है। एक तरफ बॉम्ब चक्रवात ने अमेरिका के पूर्वी तट पर कहर बरपाया तो वहीं यूरोप में एलेनर तूफान ने मुश्किलें बढ़ा रखी हैं।

Dakhal News

Dakhal News 6 January 2018


ट्रम्प नहीं चाहते थे राष्ट्रपति बनना

पत्रकार माइकल वॉल्फ की किताब में जि़क्र डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के राष्ट्रपति नहीं बनना चाहते थे। वहीं पत्नी मेलानिया को जब अपने पति की अचंभित करने वाली जीत का पता चला तो वह रोने लगीं थीं। इसका जिक्र अमेरिकी पत्रकार माइकल वॉल्फ ने अपनी पुस्तक 'फायर एंड फ्यूरीः इनसाइड द ट्रंप व्हाइट हाउस' में किया है। पुस्तक के अनुसार ट्रंप ने चुनाव अभियान की शुरुआत में ही अपने सहयोगी सैम ननबर्ग को बता दिया था कि उनका अंतिम लक्ष्य कभी चुनाव जीतना नहीं रहा। हालांकि वह दुनिया के सबसे मशहूर शख्स बन सकते हैं। डोनाल्ड ट्रंप ने अपने लंबे समय के दोस्त फॉक्स न्यूज के पूर्व प्रमुख रोजर एलायस से मजाकिया लहजे में कहा था कि अगर टेलीविजन के क्षेत्र में कॅरियर बनाना चाहते हो तो पहले राष्ट्रपति पद का चुनाव लड़ो। किताब में कहा गया है, 'जूनियर ट्रंप ने अपने एक दोस्त को बताया था कि चुनाव परिणाम की रात आठ बजे के बाद जब अप्रत्याशित रुझानों ने ट्रंप की जीत की पुष्टि कर दी तो कि उनके पिता ऐसे लग रहे थे जैसे उन्होंने भूत देख लिया हो। मेलानिया खुश होने की बजाय रो रही थीं।' एच1बी वीजा के समर्थन में थेः अमेरिकी राष्ट्रपति का चुनाव जीतने के बाद डोनाल्ड ट्रंप ने भारतीय पेशेवरों में लोकप्रिय एच1बी का समर्थन किया था। उन्होंने 14 दिसंबर 2016 को आइटी क्षेत्र के दिग्गजों के साथ बैठक में माना था कि उनकी कंपनियों के लिए एच1बी वीजा काफी अहम है। माइकल वॉल्फ की पुस्तक में बताया गया है कि डोनाल्ड टं्रप के अपने दोस्तों की पत्नियों के साथ करीबी संबंध थे। डेली मेल में छपी किताब के अंश के अनुसार ट्रंप मित्रों की बीवियों की हमदर्दी हासिल कर उनके पास जाते थे। यह वह समय होता था, जब ट्रंप के दोस्त अपने घर पर नहीं होते थे।फिर वह अपने दोस्तों से फोन को स्पीकर पर रख बात करते थे। इसमें तमाम तरह की अश्लील बातें होती थीं। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने पुस्तक की बातों को खारिज किया है। सैंडर्स ने कहा कि यह किताब झूठ से भरी है | इसमें उन लोगों के हवाले से भ्रामक तथ्य रखे गए हैं जिनकी व्हाइट हाउस तक पहुंच ही नहीं थी। ज्ञात हो कि पुस्तक अगले सप्ताह आने वाली है।  

Dakhal News

Dakhal News 4 January 2018


अमेरिका रोक सकता है पाक की 1628 करोड़ की सहायता

  अमेरिकी सरकार पाकिस्तान को दी जाने वाली 25.5 करोड़ डॉलर (1628 करोड़ रुपए) की आर्थिक सहायता रोकने पर गंभीरता से विचार कर रही है। आतंकी पनाहगाहों पर पाकिस्तान के कोई कड़ी कार्रवाई न करने से क्षुब्ध अमेरिकी सरकार सहायता रोकने के विकल्प पर विचार कर रही है। न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक, अमेरिकी सरकार में चर्चा शुरू हो गई है कि जब पाकिस्तान आतंकवाद निरोधी अभियान में सहयोग नहीं कर रहा तो उसे क्यों सहायता दी जाए। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप इस बाबत पहले ही चेतावनी दे चुके हैं। वह आतंकवाद के खिलाफ मुहिम में सहयोग न करने वालों को दंडित करने की बात भी कह चुके हैं। अखबार ने लिखा है कि अमेरिका और पाकिस्तान की लंबे समय की दोस्ती में तब ठंडापन आ गया जब राष्ट्रपति ट्रंप ने उस पर आतंक, हिंसा और अराजकता फैलाने वालों को सुरक्षित पनाह देने का आरोप लगाया। इसी के बाद आतंकवाद से लड़ाई के लिए सन 2002 से पाकिस्तान को 33 अरब डॉलर (दो लाख दस हजार करोड़ रुपए) की सहायता मुहैया कराने वाले अमेरिका ने ताजा मदद को रोकने पर विचार शुरू किया है। हाल ही में अमेरिकी रक्षा मंत्री जिम मैटिस ने पाकिस्तान यात्रा में वहां की सरकार और सेना से आतंकवाद निरोधी मुहिम में ज्यादा प्रभावी कार्रवाई करने की अपेक्षा जताई थी। चंद रोज पहले अमेरिकी उप राष्ट्रपति माइक पेंस ने अफगानिस्तान में कहा था कि उनकी सरकार पाकिस्तान पर कड़ी नजर रखे हुए है। अखबार के अनुसार सरकार के वरिष्ठ अधिकारी जल्द ही इस बाबत बैठक करके तय करेंगे कि पाकिस्तान को दी जाने वाली सहायता के संबंध में अंतिम फैसला क्या किया जाए।

Dakhal News

Dakhal News 31 December 2017


मिस्र में चर्च पर आतंकी हमले में 10 की मौत

  मिस्र के दक्षिणी काइरो में आतंकियों ने हेलवान सिटी की चर्च को निशाना बनाया है। आतंकियों की आंधाधुंध फायरिंग में अभी तक 10 लोगों के मारे जाने की खबर है। मारे जाने वालों में दो पुलिसकर्मी भी हैं। पुलिस की जवाबी फायरिंग में एक आतंकी मारा गया है। फायरिंग के दौरान दूसरा आतंकी बच कर भागने में कामयाब रहा। आतंकियों ने हेलवान सिटी की मार मीना चर्च पर फायरिंग की। मिस्र के अधिकारियों के अनुसार आतंकियों ने चर्च के बाहर ड्यूटी में लगे सुरक्षाबलों पर अंधाधुंध फायरिंग शुरु कर दी जिसमें दो पुलिसकर्मी मारे गए। अभी तक किसी भी आतंकी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। यह हमला नए साल पर आगामी 7 जनवरी को चर्च पर होने वाले समारोह से पहले हुआ है। मिस्र एक मुस्लिम बहुसंख्यक देश है। यहां ईसाई अल्पसंख्यक हैं। इनकी आबादी लगभग 10 प्रतिशत है। जिसमें से अधिकांश ईसाई कॉप्टिक रूढ़िवादी चर्च से संबंधित हैं। बता दें कि अप्रैल में यहां की सेंट जॉर्ज चर्च पर हुए आत्मघाती हमले में 45 लोग मारे गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी आतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट ने ली थी।

Dakhal News

Dakhal News 30 December 2017


बड़ा आत्मघाती हमला काबुल 40 की मौत

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में हुए एक आत्मघाती हमले में 40 लोगों की मौत हो गई है जबकि 30 लोग घायल हो गए हैं। टोलो न्यूज के मुताबिक आत्मघाती हमलावर ने पीडी6 इलाके में तेबीयन केंद्र के दरवाजे पर विस्फोट किया है। बताया जा रहा है कि राजधानी काबुल में एक शिया सांस्कृतिक और धार्मिक संगठन में आत्मघाती हमला हुआ है।  घायलों को इलाज के लिए नजदीकी अस्पतला में भर्ती कराया गया है। अस्पताल के डॉक्टर्स का कहना है कि कई लोग गंभीर रूप से घायल हैं और मृतकों की संख्या बढ़ भी सकती है। हालांकि अभी किसी आतंकी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। आपको बता दें कि कुछ दिन पहले ही काबुल में अब्दुल्हाक स्क्वायर के नजदीक राष्ट्रीय सुरक्षा निदेशालय (एनडीएस) के कार्यालय के पास आत्मघाती हमलावर ने खुद को विस्फोट से उड़ा दिया। इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी समूह आईएस ने ली थी। यह हमला तब किया गया जब लोग दफ्तर से अपने घरों को लौट रहे थे। एक हफ्ते पहले ही आतंकियों ने काबुल स्थित एनडीएस के प्रशिक्षण केंद्र को उड़ाने की कोशिश भी की थी। अफगानिस्तान के गृह मंत्रालय के प्रवक्ता नजीब दानिश ने बताया कि धमाके के वक्त पास से गुजर रही टोयोटा कार में सवार नागरिकों की मौके पर ही मौत हो गई। कई लोग घायल भी हुए हैं। बताया जा रहा है कि हमले को एक नाबालिग आतंकी ने अंजाम दिया।  

Dakhal News

Dakhal News 28 December 2017


POK  में पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन

  पाकअधिकृत कश्मीर (पीओके) गिलगित-बल्टिस्तान में एक बार फिर पाकिस्तान के विरोध में प्रदर्शन शुरू हो गए हैं। वहां स्थानीय नागरिकों ने पाक सरकार पर भेदभावपूर्ण रवैया अपनाने पाक सरकार द्वारा लागू कराधान को खारिज करने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। व्यापारियों ने गिलगित स्कार्दु समेत कई शहरों में बाजार व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रखे।  

Dakhal News

Dakhal News 24 December 2017


तुरंत फांसी नहीं होगी कुलभूषण जाधव को

इस्लामाबाद से खबर है कि पाकिस्तान ने इस बात को खारिज किया है कि भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव मां और पत्नी से अंतिम मुलाकात करेंगे। उसने कहा कि जाधव को तुरंत फांसी का खतरा नहीं है। गौरतलब है कि जाधव की मां और पत्नी सोमवार को पाकिस्तान में उनसे मुलाकात करेंगी। पाक विदेश विभाग के प्रवक्ता मुहम्मद फैजल ने कहा कि पाकिस्तान ने पूरी तरह मानवीय आधार पर मां और पत्नी को जाधव से मिलने की इजाजत दी है। परिवार से मिलने के बाद जाधव को फांसी पर लटकाने के सवाल का वह जवाब दे रहे थे। फैजल ने आश्वस्त किया कि जाधव को तुरंत फांसी देने की बात नहीं है। उनकी दया याचिका अभी लंबित है। उन्होंने कहा कि विदेश मंत्रालय में जाधव और उनके परिवार की मुलाकात होगी। पाकिस्तान स्थित भारतीय उच्चायोग के एक राजनयिक को परिवार वालों से साथ जाने की इजाजत दी जाएगी। फैजल ने कहा कि पाकिस्तान जाधव की मां और पत्नी को मीडिया से बातचीत की इजाजत देने को तैयार है। इस बारे में भारत के फैसले का इंतजार है। 47 वर्षीय जाधव को पाक सैनिक अदालत ने जासूसी और आतंकवाद के आरोप में अप्रैल में सजा सुनाई है।  

Dakhal News

Dakhal News 21 December 2017


सहरिया बनेंगे जमीन के मालिक

   मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज शिवपुरी जिले के कोलारस क्षेत्र के प्रवास के दौरान ग्राम रन्‍नौद की सहरिया जनजाति की बस्‍ती में अचानक पहुँचे। मुख्यमंत्री बस्ती में सहरिया परिवारों से मिले और उनकी समस्याओं को सुना। मुख्यमंत्री से मिलकर पुलकित हुई गिरजाबाई गिरजाबाई को मिलेगी 25 हजार रूपये की आर्थिक सहायता और बच्चे को पाँच सौ रूपये मासिक गिरजा बाई ने कभी सोचा भी नहीं था कि मुख्यमंत्री उसे मिलेंगे और बिना बताये ही उसकी समस्या को जानकर उसका समाधान भी कर देंगे। उसको कतई उम्मीद भी नहीं थी कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान कभी उसके पास आयेंगे और उसके बच्चे को दुलार भी करेंगे। शिवपुरी जिले के रन्नौद से कार द्वारा हेलीपेड के लिये लौटते समय मुख्यमंत्री श्री चौहान की नजर एक छोटे बच्चे को गोद में लिये एक ग्रामीण महिला पर पड़ी। उन्होंने तत्काल गाड़ी रूकवायी। वे उस ग्रामीण महिला के पास जा पहुँचे तथा उसके बच्चे को लाड़-प्यार किया। श्री चौहान को महिला की हालत देखकर उसकी परिस्थिति को भाँपने में देर नहीं लगी। उन्होंने मौके पर ही महिला को 25 हजार रूपये की एक मुश्त आर्थिक सहायता तथा बच्चे के पोषण के लिये प्रति माह पाँच सौ रूपये की विशेष आर्थिक सहायता देने के लिये कलेक्टर को निर्देशित किया। गाम डगपीपरी की गिरजाबाई पति स्वर्गीय श्री हरप्रसाद जाटव गुरूवार को श्री चौहान से मिलकर खुशी से फूली नहीं समायी। मुख्यमंत्री से मिले भाई-बहन के स्नेह से उसके अपने मायके की याद ताजा हो गयी। वह अपने घर परिवार को यह बताते नहीं अघाती कि प्रदेश के मुख्यमंत्री उसके भाई हैं, जिन्होंने बहन की चिंता कर उसकी समस्या का निदान किया जिसे वह जीवन भर नहीं भूलेगी। मुख्यमंत्री की सहजता देखकर वहाँ मौजूद लोग भी अचंभित हुए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सहरिया परिवारों से कहा कि वे जिस जमीन पर रह रहे हैं, उन्हें पट्टा देकर उसी जमीन का मालिक बनाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारियों को इस बावत तुरंत कार्यवाही करने के निर्देश दिये। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि सहरिया परिवारों की जमीन पर अगर अन्य लोगों ने कब्जा किया हुआ है, तो ऐसे कब्जे तत्काल हटवायें। मुख्यमंत्री ने सहरिया जनजाति के परिवारों को बताया कि उन्हें साग-भाजी और दूध खरीदने के लिये प्रति माह एक हजार रूपये की राशि परिवार की महिला सदस्‍य के बैंक खाते में जमा करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि सहरिया जनजाति के परिवारों को एक रूपये प्रति किलो गेहूँ, चावल और नमक भी प्रदाय किया जाएगा।मुख्यमंत्री ने सहरिया परिवारों से आग्रह किया कि अपने बच्‍चों को पढ़ने-लिखने के लिये स्कूल भेजें। इसके लिये राज्‍य सरकार सभी तरह की सहायता उपलब्‍ध करवाएगी। इस दौरान उन्‍होंने सहरिया बस्‍ती में हैण्‍डपंप लगाने के निर्देश भी दिये।  

Dakhal News

Dakhal News 21 December 2017


प्रद्युम्न हत्या

    गुरुग्राम में रेयान इंटरनेशनल स्कूल के दूसरी क्लास के छात्र प्रद्युम्‍न की हत्या के मामले में बुधवार को जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड (जेजेबी) ने बड़ा फैसला सुनाया। कोर्ट ने इस मामले में फैसला सुनाते हुए कहा है कि 16 साल के आरोपी छात्र पर बालिग की तरह केस चलेगा। यानी प्रद्युम्‍न की हत्या का आरोप अगर साबित होता है तो 16 साल के आरोपी को उम्र कैद से लेकर फांसी तक की सजा हो सकती है। जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड ने इस मामले में आरोपी छात्र को 22 नवंबर को कोर्ट में पेश करने को कहा है। इस मामले में सीबीआई और आरोपी छात्र के वकील की दलीलें सुनने के बाद जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड ने आठ दिसंबर को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था, जिसे आज सुनाया गया। इस मामले में प्रद्युम्‍न के पिता वरुण ठाकुर ने न्यायपालिका का स्वागत करते हुए कहा कि-' मुझे पता था कि इंसाफ की लड़ाई लंबी चलेगी, मगर हम जरुर अपने बेटे को न्याय दिलाने में कामयाब होंगे, ताकि आगे किसी बच्चे के साथ ऐसा न हो।' बता दें कि प्रद्युम्न हत्याकांड में मामले की जांच करने के बाद सीबीआई ने 7 नवंबर को स्कूल के ही 11वीं कक्षा के छात्र को हिरासत में लिया था।  

Dakhal News

Dakhal News 21 December 2017


पूर्वी यरुशलम फलस्तीन की राजधानी

  इस्तांबुल में आर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कोआपरेशन (ओआइसी) के शिखर सम्मेलन में मुस्लिम देशों ने अमेरिका के फैसले के विपरीत पूर्वी यरुशलम को फलस्तीन की राजधानी घोषित कर दिया है। सम्मेलन में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का यरुशलम को इजरायल की राजधानी की मान्यता देने के फैसले को मध्य-पूर्व शांति प्रक्रिया से अमेरिका का पीछे हटना बता रहा है। शिखर सम्मेलन का आयोजन तुर्की के राष्ट्रपति तैयप एर्दोगन ने किया। तुर्की अमेरिका नीत नाटो का सदस्य देश है। बावजूद इसके यरुशलम के मुद्दे पर एर्दोगन ने अमेरिका की कड़ी आलोचना की है। शिखर सम्मेलन के लिए तैयार किए गए घोषणा पत्र के मसौदे में कहा गया है, '50 से अधिक मुस्लिम देशों के नेताओं, मंत्रियों और अधिकारियों ने पूर्वी यरुशलम को फलस्तीन की राजधानी घोषित किया है। सभी देशों को फलस्तीन और पूर्वी यरुशलम को देश और उसकी राजधानी के रूप में मान्यता देने के लिए आमंत्रित किया जाता है।' तुर्की के विदेश मंत्री मेवलुट कावुसोगू ने मसौदे के घोषणा पत्र की एक प्रति ट्विटर पर साझा की है। उन्होंने ट्वीट किया, 'बैठक में अमेरिका के कदम को खारिज और कड़े शब्दों में निंदा की गई है।' इसमें बताया गया है कि अमेरिका का फैसला सभी शांति प्रयासों को कमजोर, चरमपंथ व आतंकवाद को बढ़ावा तथा अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा के लिए खतरे को बढ़ावा देने वाला जानबूझकर उठाया गया कदम है।'

Dakhal News

Dakhal News 14 December 2017


ins klvari

  गुरुवार को भारतीय नौसेना में डीजल से चलने वाली पनडुब्बी आईएनएस कलवरी को शामिल कर लिया गया। पिछले 17 सालों में ये पहली भारतीय सबमरीन है, जिसे नौसेना में शामिल किया गया है। स्कार्पीन क्लास की इस पहली पनडुब्बी में आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल किया गया है। इसी वजह से इसकी मारक क्षमता काफी बढ़ गई है और इसे दुनिया में बेहतर माना जा रहा है। इसे मझगांव डॉक लिमिटेड ने बनाया है। इस पनडुब्बी की खासियतें जानकार आप हैरान हो जाएंगे। इसे समंदर में भारत का 'नया शार्क' कहा जा रहा है। आईएनएस कलवरी डीजल-इलेक्ट्रिक मोटर के दम पर चलती है और जैसे समंदर में शार्क अपने शिकार को बिना खबर लगे दबोच लेते ही। वैसे ही समुद्र के अंदर गहरे जाने वाली ये पनडुब्बी बिना शोर किए दुश्मन को तबाह करने की ताकत रखती है। आईएनएस कलवरी की कुल लंबाई 67.5 मीटर है, वहीं उसकी ऊंचाई 12 मीटर से ज्यादा है। आईएनएस कलवरी को DCNS( French Naval Defence And Energy Company) ने मझगांव डॉक लिमिटेड के साथ मिलकर तैयार किया है। पानी की अंदर इसकी ताकत को देखते हुए ही इसे कलवरी नाम दिया गया है। जिसे मलयालम में टाइगर शार्क कहा जाता है। पानी के भीतर इसकी तेजी, हमला करने की क्षमता गजब की है। कलवरी का ध्येय वाक्य है 'हमेशा आगे', जो ये बताने के लिए काफी है, इसे किस सोच के साथ तैयार किया गया है। भारतीय नौसेना में शामिल होने वाली 6 स्कार्पीन क्लास पनडुब्बी में से ये पहली है। भारत की दूसरी पनडुब्बियों से आईएनएस कलवरी कम शोर करती है और ये उन्नत तकनीक से लैस है। कलवरी में इंफ्रारेड और कम रोशनी में काम करने वाले कैमरे लगे हैं, जो समुद्र की सतह पर दुश्मन के जहाज को पकड़ने में माहिर हैं | आईएनएस कलवरी में दुश्मन को खोजने और उस पर हमला करने वाला पेरीस्कोप लगा है।कलवरी में एंटी- शिप मिसाइल और लंबी दूरी तर मार करने वाले टॉरपीडो भी लगे हुए हैं।  

Dakhal News

Dakhal News 14 December 2017


 28 खिलाड़ी शिखर सम्मान से अलंकृत

मध्यप्रदेश के 28 खिलाड़ी शिखर सम्मान से अलंकृत  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एकलव्य पुरस्कार विजेताओं को शासकीय नौकरी देने, अंतराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में पदक विजेताओं को बिना परीक्षा के पुलिस में उपनिरीक्षक, आरक्षक के पद पर नियुक्ति देने और अन्य शासकीय विभागों में भी ऐसी व्यवस्था करने की घोषणा की है। श्री चौहान आज भोपाल में मध्यप्रदेश शिखर खेल अलंकरण समारोह 2017 कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर विधानसभा उपाध्यक्ष श्री राजेन्द्र सिंह, विधायक, गणमान्य नागरिक, खेल प्रेमी और खिलाड़ी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिन्दगी खेल के बिना अधूरी है। राजनीति में खेल आ जाये तो चमत्कार होता है, लेकिन खेलों में राजनीति नहीं आनी चाहिए। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में जिस विजन के साथ राष्ट्र निर्माण का कार्य हो रहा है, उसमें 2020 के ओलंपिक में भारत पदकों का रिकार्ड बनायेगा। खेलों में देश में नया इतिहास रचा जा रहा है। मध्यप्रदेश भी इसमें अग्रणी रहेगा। मध्यप्रदेश के खिलाड़ियों के प्रदर्शन में यह दिख रहा है। भारत की महिला हॉकी टीम में आधे खिलाड़ी मध्यप्रदेश की हॉकी अकादमियों के हैं। अंतराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में प्रदेश के 80 खिलाड़ियों ने प्रतिभागिता की, जिनमें से 46 ने पदक प्राप्त किये। उन्होंने पालकों से कहा कि बच्चों को खेलने-कूदने और मस्ती करने का अवसर भी दें। जो बच्चे पढ़ना चाहते हैं और जो खेलना चाहते हैं, दोनों के साथ प्रदेश की सरकार है। मेधावी बच्चों की उच्च शिक्षा की फीस राज्य सरकार द्वारा भरवाये जाने की योजना का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि खेलने वाले बच्चों को भी पीछे नहीं रहने दिया जायेगा। बच्चे राज्य का भविष्य हैं, उनकी हर आवश्यकता को पूरा किया जाएगा। केन्द्रीय युवा कार्य एवं खेल राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कहा कि कानून बनाकर केन्द्रीय सरकारी नौकरियों में खिलाड़ियों के लिये निर्धारित पदों के आरक्षण की व्यवस्था की जायेगी। खिलाड़ियों के लिये आरक्षित पद पर उम्मीदवार नहीं मिलने पर रिक्त पद अगले वर्ष की रिक्तियों में जोड़ दिये जायेंगे। उन्होंने बताया कि खेलों से संबंधित मोबाइल एप्लीकेशन भी तैयार किया जा रहा है जिसमें खेल मैदानों, अन्य सुविधाओं और प्रशिक्षकों की जानकारी उपलब्ध रहेगी। श्री राठौर ने कहा कि भारत सरकार खेलों इंडिया के विजन पर कार्य कर रही है। देश में पहली बार अंडर-17 की खेल प्रतियोगिताओं का विशाल टूर्नामेंट 31 जनवरी से 8 फरवरी 2018 तक आयोजित किया जायेगा। इस टूर्नामेंट में विभिन्न विद्यालयों, फेडरेशनों और स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया की टीमें भाग लेंगी। खिलाड़ियों को समर्थन और संसाधन उपलब्ध कराने के लिये प्रथम चरण की स्पांसरशिप भी केन्द्र सरकार द्वारा दी जायेगी। हर वर्ष देश भर से एक हजार खिलाड़ियों को पांच लाख रुपये प्रति वर्ष के मान से आठ वर्ष की स्पांसरशिप दी जायेगी। विद्यालयों में आगामी ग्रीष्मावकाश से पूर्व आठ से चौदह वर्ष की उम्र की खेल प्रतिभाओं की खोज का कार्य भी किया जायेगा। उनकी शारीरिक क्षमताओं और दक्षताओं के आधार पर उनको उपयुक्त खेल का प्रशिक्षण दिया जायेगा। इसी तरह खेल प्रतिभाओं को खोजने वाले प्रशिक्षकों को भी उचित प्रोत्साहन और सम्मान दिये जाने की व्यवस्था भी की जा रही है ताकि पदक विजेता खिलाड़ी के प्रशिक्षक के लिये निर्धारित प्रोत्साहन राशि का बीस प्रतिशत हिस्सा प्रारंभिक कोच को मिले। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में खेलो इंडिया अभियान में खेल संस्कृति को प्रोत्साहित करने के प्रयास किये जा रहे है। अच्छा इंजीनियर, अच्छा डॉक्टर और अच्छा नागरिक बनाने के लिये खेल आवश्यक हैं। टीम के लिये खेलने, गिर कर उठने और हार कर जीतने की शिक्षा खेल मैदान में ही मिलती है। ऐसे गुरुओं के सम्मान और गुरु-शिष्य की संस्कृति को पुनर्स्थापित करने के प्रयास किये जा रहे हैं। श्री राठौड़ ने मुख्यमंत्री श्री चौहान के नेतृत्व की सराहना करते हुए बताया कि मध्यप्रदेश राज्य में ही उनकी विद्यालयीन और सैनिक शिक्षा संपन्न हुई है। खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा कि दिल और दिमाग में जीत हासिल करने का जज्बा ही जीत को पक्का करता है। पैरा ओलम्पियन खिलाड़ियों के जीवन संघर्ष का उल्लेख करते हुये उन्होंने कहा कि इन खिलाड़ियों ने चुनौतियों का सामना संकल्प और कठोर परिश्रम से किया और सफलता प्राप्त की। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार ने आज दो सौ करोड़ का बजट खेलों को उपलब्ध कराया है। इस अवसर पर रियो पैरा ओलम्पिक के पदक विजेताओं सुश्री दीपा मलिक को चालीस लाख रुपये, श्री देवेन्द्र झांझरिया को पचास लाख रुपये, मरियप्पन थंगावेलू को पचास लाख रुपये और वरुण सिंह भाटी को पच्चीस लाख रुपये तथा रियो ओलम्पिक-2016 में महिला कुश्ती में कांस्य पदक विजेता सुश्री साक्षी मलिक को पच्चीस लाख रुपये की सम्मान निधि से सम्मानित किया गया। भारतीय महिला हॉकी दल में मध्यप्रदेश राज्य महिला हॉकी अकादमी की सुश्री अनुराधा देवी, पी. सुशीला चानू, रेणुका यादव तथा एल. फैली को 5-5 लाख रुपये की सम्मान निधि दी गई। वर्ष 2017 के लिये एकलव्य, विक्रम एवं विभिन्न खेल पुरस्कारों के लिए प्रदेश के कुल 28 खिलाड़ियों को शिखर सम्मान से अलंकृत किया गया।    

Dakhal News

Dakhal News 5 December 2017


उत्तर कोरिया फिर करेगा मिसाइल टेस्ट

टोक्‍यो से खबर है कि उत्तर कोरिया की ओर से एक और बैलिस्‍टिक मिसाइल लॉन्च की तैयारियों चल रही है ,यह संकेत जापान को मिले हैं। जापान के सरकारी सूत्रों ने मंगलवार को बताया, जापान को कुछ रेडियो सिग्‍नल प्राप्‍त हुए हैं जो उत्तर कोरिया द्वारा एक और बैलिस्‍टिक मिसाइल परीक्षण की संभावना की पुष्‍टि कर रहे हैं। हालांकि ये सिग्‍नल आम नहीं हैं और सैटेलाइट इमेज से किसी नई गतिविधि का पता नहीं चल रहा है। अप्रैल से एक माह में दो या तीन मिसाइलों की फायरिंग के बाद सितंबर में उत्तर कोरियाई मिसाइल लांचिंग रुक गयी जब प्‍योंगयांग द्वारा फायर किया गया रॉकेट जापान के उत्तरी होक्‍काइदो आइलैंड के ऊपर से गुजरा था। जापान की क्‍योदो न्‍यूज एजेंसी के अनुसार, रेडियो सिग्‍नल मिलते ही जापान सरकार अलर्ट हो गयी। इन रेडियो सिग्‍नल के अनुसार जल्‍द ही लांच होने वाला है। रिपोर्ट के अनुसार, ये सिग्‍नल उत्तर कोरियाई मिलिट्री द्वारा विंटर मिलिट्री ट्रेनिंग से संबंधित भी हो सकता है। दक्षिण कोरिया के न्‍यूज एजेंसी ने दक्षिण कोरिया के सरकारी सूत्रों का हवाला देते हुए बताया कि अमेरिका, दक्षिण कोरिया व जापान को भी संभावित मिसाइल लॉन्च के संकेत मिले हैं।

Dakhal News

Dakhal News 28 November 2017


atanki hafiz said

खबर लाहौर से । 26/11 के मंबई हमलों के मास्टरमाइंड और मोस्ट वांटेंड आतंकी हाफिज सईद ने संयुक्त राष्ट्र (यूएन) से में याचिका दायर कर कहा है कि आतंकियों की लिस्ट से उसका नाम हटा दिया जाए। हाफिज के संगठन जमात-उद-दावा की तरफ से यूएन में इस बाबत एक याचिका लगाई है, जिसे लाहौर की एक कानूनी फर्म के माध्यम से दायर किया गया है। आपको बता दें कि जमात-उद-दावा के सरगना सईद को संयुक्त राष्ट्र ने नवंबर 2008 में हुए मुबंई हमलों के बाद यूएनएससीटी 1267 (यूएन सिक्यॉरिटी काउंसिल रेजॉलूशन) के तहत दिसंबर 2008 में आतंकी घोषित किया था। हाफिज सईद को हाल ही में नजरबंदी से रिहाई मिली है। लश्कर सरगना हाफिज सईद के सिर पर अमेरिका ने एक करोड़ डॉलर (64.50 करोड़ रुपया) का इनाम घोषित कर रखा है। हाफिज सईद जनवरी से नजरबंद था। पाकिस्तान सरकार ने शुक्रवार को उसे किसी दूसरे मामले में गिरफ्तार करने के बजाय रिहा करने का फैसला किया था। संयुक्त राष्ट्र लश्कर के मुखौटा संगठन जमात-उद-दावा को पहले ही प्रतिबंधित कर चुका है। सूत्रों ने बताया कि फ्रांस ने हाफिज सईद को आजाद करने के पाकिस्तान के कदम पर नाखुशी जताई है। फ्रांसीसी अधिकारियों ने भारत के साथ मिलकर आतंकवाद से मुकाबला करने के प्रयास को जारी रखने के लिए सहयोग बढ़ाने की बात कही है। बता दें कि सईद ने पाकिस्तान में नजरबंदी से रिहा होते ही संयुक्त राष्ट्र में यह याचिका दायर की है।  

Dakhal News

Dakhal News 28 November 2017


ट्रंप ने पीएम मोदी की थपथपाई पीठ

ट्रंप ने पीएम मोदी की थपथपाई पीठ, विकास दर को बताया बेहतर वियतनाम में चल रहे APEC समिट में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत के पीएम मोदी की जमकर तारीफ की। अमेरिकी राष्ट्रपति ने देश को तरक्की की रफ्तार पर बढ़ाने के लिए पीएम मोदी की नीतियों को सही माना। APEC के सालाना सम्मेलन से अलग शुक्रवार को मुख्य कार्यकारी अधिकारियों( सीईओ) के सम्मेलन को संबोधित करते हुए भारत की 'असाधारण' आर्थिक प्रगति की भी सराहना की है। साथ ही एशिया-पैसिफिक के बजाय 'इंडो-पैसिफिक' की पैरोकारी कर दुनिया और क्षेत्रीय ताकतों को संदेश दिया है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि पीएम मोदी भारत जैसे एक विशाल देश के लोगों को साथ लाने की दिशा में सफलतापूर्वक काम कर रहे हैं। ट्रंप के मुताबिक, APEC से बाहर के देश भी इंडो-पैसिफिक क्षेत्र में जबरदस्त प्रगति कर रहे हैं। उन्होंने कहा, 'अर्थव्यवस्था को बाहरी दुनिया के लिए खोलने के बाद से भारत ने असाधारण विकास किया है। इससे देश में लगातार बढ़ रहे मध्य वर्ग के लिए मौकों की नई दुनिया सृजित हुई है। भारत स्वतंत्रता की 70वीं वर्षगांठ मना रहा है, जो यह दर्शाता है कि 1.3 अरब की जनसंख्या वाला देश सफल संप्रभु लोकतांत्रिक राष्ट्र है। भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश भी है।' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत-आसियान और ईस्ट एशिया के शिखर सम्मेलनों में हिस्सा लेने के लिए रविवार को फिलीपींस रवाना होंगे। ट्रंप भी पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार एचआर मैकमास्टर के बाद राष्ट्रपति ट्रंप ने भी 'इंडो-पैसिफिक' की पैरोकारी की है। यहां इंडो का मतलब हिद महासागर और पैसिफिक का प्रशांत महासागर से है। ट्रंप ने कहा, 'इंडो-पैसिफिक क्षेत्र में लंबे समय से अमेरिका के साझीदार और मित्र देश रहे हैं। हाल के दशकों में क्षेत्र के विकास की कहानी उस बात को दिखाती है कि लोगों द्वारा अपने भविष्य की जिम्मेदारी खुद लेने पर क्या संभव हो सकता है।' ट्रंप द्वारा इंडो-पैसिफिक के इस्तेमाल ने भारत, अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया के बीच उस चतुष्कोणीय रणनीतिक सहयोग की अटकलों को हवा दे दी है, जिसके तहत चीन के बढ़ते प्रभुत्व पर नकेल लगाने की बात कही जा रही है। APEC में दुनिया के 21 प्रभावशाली देश शामिल हैं। वर्ष 1989 में अस्तित्व में आए इस संगठन में एशिया और प्रशांत क्षेत्र में आने वाले देश शामिल हैं। इसका मुख्यालय सिंगापुर में है। इन देशों का वैश्विक अर्थव्यस्था के जीडीपी में 60 फीसद तक की हिस्सेदारी है। डेनांग में APEC की बैठक में भाग लेने के लिए रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन भी आएंगे, लेकिन उनकी राष्ट्रपति ट्रंप के साथ कोई अलग बैठक नहीं होगी। क्रेमलिन से जारी बयान में शुक्रवार को यह खास बैठक होने की बात कही गई थी, लेकिन शुक्रवार को सुबह अमेरिकी राष्ट्रपति के व्हाइट हाउस कार्यालय ने इसे नकार दिया। अब परिषद के मंच पर दोनों नेता साथ होंगे, लेकिन अलग से उनकी कोई मुलाकात नहीं होगी।

Dakhal News

Dakhal News 11 November 2017


जमात-ए-इस्लामी

खबर लाहौर से है , पाकिस्तान में मुख्य धारा की छह धार्मिक पार्टियों ने एक दशक बाद गिले-शिकवे भुला मुत्तहिदा मजलिस-ए-अमल (एमएएम) के जरिये अगले साल होने जा रहे चुनाव में उतरने का फैसला लिया है। मतभेदों की वजह से इनका गठबंधन टूट गया था। गठबंधन में शामिल सभी दल अपने पुराने घोषणापत्र पर ही चुनाव में उतरेंगे। गठबंधन में शामिल होने के लिए दूसरी धार्मिक पार्टियों से भी संपर्क साधने का फैसला लिया गया। यह घोषणा लाहौर स्थित जमात-ए-इस्लामी के मुख्यालय में हुई बैठक में की गई। एमएएम नेताओं ने उम्मीद जताई कि वर्ष 2018 के चुनाव में पार्टी बेहतर प्रदर्शन करेगी। जमात-ए-इस्लामी के चीफ सीनेटर सिराजुल हक ने कहा कि छह सदस्यीय कमेटी की सिफारिश पर गठबंधन का फैसला लिया गया है। गौरतलब है कि आगामी चुनाव के लिए इसी हफ्ते सुन्नी विचारधारा वाले दलों ने निजाम-ए-मुस्तफा नाम से महागठबंधन बनाया था। धार्मिक मामलों के पूर्व मंत्री हमीद सईद काजमी को इस गठबंधन का अस्थाई प्रमुख चुना गया है।

Dakhal News

Dakhal News 11 November 2017


अमेरिकी लड़ाकू विमान

खबर सियोल से । नॉर्थ कोरिया और अमेरिकी के बीच जारी बायनबाजी के साथ ही तनाव भी गहराया हुआ है। उत्तर कोरिया द्वारा फिर से मिसाइल परीक्षण की आशंकाओं के बीच एक बार फिर से अमेरिकी बमवर्षक विमानों ने कोरियाई प्रयद्वीप के ऊपर से उड़ान भरी है। यह जानकारी दक्षिण कोरिया की समाचार एजेंसी योनहाप ने दी है। हालांकि, अमेरिकी सेना ने अब तक इसकी पुष्टि नहीं की है। अमेरिका के इस कदम से क्षेत्र में तनाव और बढ़ने की आशंका है। इसकी जानकारी देते हुए दक्षिण कोरिया के संयुक्त चीफ ऑफ स्टाफ ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि ग्वाम हवाई पट्टी से अमेरिकी बमवर्षक बी-1 ने उड़ान भरी इस दौरान इनके साथ दक्षिण कोरिया के एफ-15 भी थे।  

Dakhal News

Dakhal News 11 October 2017


कैलिफोर्निया

  अमेरिका के उत्तरी कैलिफोर्निया के जंगलों में सोमवार को फिर भीषण आग लग गई है। तेज हवाओं के चलते आग तेजी से फैलती जा रही है। आग इतनी भयानक है कि डिज्नीलैंड के कैलिफोर्निया एडवेंचर पार्क के ऊपर का आसमान नारंगी रंग का हो गया। आग से अब तक 13 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 1500 से अधिक मकान खाक हो चुके हैं। करीब 20 हजार लोगों को पलायन करना पड़ा है। कई लोग लापता हैं। मृतकों में 99 और 100 साल का एक दंपती भी शामिल है। 100 से अधिक लोग घायल हैं। प्रांत में आग लगने की बीते एक दशक की यह सबसे भयावह घटना बताई जा रही है। कैलिफोर्निया डिपार्टमेंट ऑफ फॉरेस्ट्री एंड प्रोटेक्शन के मुताबिक, इस साल जंगलों में आग के 7,484 मामले सामने आए, जिसमें 7.71 एकड़ इलाका जल गया। पांच काउंटी में आपात स्थिति की घोषणा कैलिफोर्निया के गवर्नर जेरी ब्राउन ने वाइन, नेपा, सोनोमा, यूबा और ऑरेंज काउंटी में आपात स्थिति की घोषणा कर दी है। उन्होंने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से राहत और बचाव कार्य में मदद का आग्रह किया है। कैलिफोर्निया के वन विभाग के अनुसार, सबसे ज्यादा नुकसान सांता रोजा में हुआ है। आग की भयावहता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि लपटों को अंतरिक्ष से भी देखा गया है। नेशनल ओशनिक एंड एटमॉसफेरिक एडमिनिस्ट्रेशन ने सैटेलाइट से आग देखे जाने की सूचना दी। कैलिफोर्निया में अग्निशमन विभाग के प्रवक्ता डेनियल बर्लेंट के अनुसार, उत्तरी कैलिफोर्निया के जंगलों में रविवार देर रात आग भड़की। इस दौरान 80 किमी घंटे की गति से चल रहीं तेज हवाओं के चलते आग 73 हजार एकड़ के दायरे में फैल गई। इसे बुझाने के लिए सैकड़ों दमकलकर्मी सोमवार को जूझते रहे। सोनोमा काउंटी के दो अस्पतालों को भी खाली कराना पड़ा है। कैलिफोर्निया के जंगलों में लगी आग को दुनिया का एकमात्र विमान 747 सुपर टैंकर ही बुझा सकता है। यह एक बार में 75 हजार लीटर से अधिक (20 हजार गैलन) पानी गिरा सकता है। कैलिफोर्निया प्रशासन इस विमान की मदद से आग से निपटने की कोशिश कर रहा है। सोमवार को इसने आग के ऊपर छह चक्कर लगाकर पानी गिराया। दिलचस्प बात यह है कि सुपर टैंकर को जेल, फोम और पानी से महज 30 मिनट में भरा जा सकता है और यह 600 मील प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ सकता है। कैलिफोर्निया के दक्षिणी तट से चलने वाली अत्यधिक सूखी हवा के कारण यहां अक्सर आग लगती है। यह सूखी हवा अत्यधिक गर्म होती है। इसी से सूखे जंगलों में आग लग जाती है। विशेषज्ञों के मुताबिक, हवा की रफ्तार तेज होने पर घर्षण से निकली हर चिंगारी शोला बन जाती है।

Dakhal News

Dakhal News 11 October 2017


उत्तर कोरिया कीं मिसाइलें

  अमेरिका की ओर से आ रहे सैन्य कार्रवाई के संकेतों के बीच उत्तर कोरिया अपनी सुरक्षा के बंदोबस्त पुख्ता कर रहा है। इसके चलते उसने रिसर्च एंड डेवलपमेंट सेंटर से मिसाइलें निकालकर उन्हें राजधानी प्योंगयांग में तैनात किया है। दक्षिण कोरियाई मीडिया के अनुसार, उत्तर कोरिया अपनी ताकत प्रदर्शित करने के लिए फिर से कोई नई कोशिश कर सकता है। मिसाइलों का स्थान परिवर्तन किए जाने की जानकारी अमेरिका और दक्षिण कोरिया के खुफिया अधिकारियों को अपने सूत्रों से मिली है। जिन मिसाइलों को तैनात किया गया है वे लंबी दूरी तक मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल ह्वासोंग-12 या ह्वासोंग-14 हो सकती हैं। ये मिसाइलें सनुम-डोंग स्थित रिसर्च एंड डेवलपमेंट सेंटर में तैयार की जाती हैं। दक्षिण कोरिया के अधिकारियों को आशंका है कि सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी की वर्षगांठ के मौके पर उत्तर कोरिया 10 अक्टूबर को कोई बड़ा परीक्षण या घोषणा कर सकता है। युद्ध के कगार पर पहुंचे कोरियाई प्रायद्वीप में एक बार फिर से अमेरिका और दक्षिण कोरिया की सेनाओं ने संयुक्त युद्धाभ्यास किया है। अमेरिका की प्रशांत क्षेत्रीय कमान की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि युद्धाभ्यास में पहली बार कम दूरी की वायुसेना की हमले और बचाव की प्रणालियों का इस्तेमाल किया गया। अमेरिकी विदेश मंत्री पहुंचे चीन इस बीच, उत्तर कोरिया पर आर्थिक प्रतिबंधों को और कड़ाई से लागू कराने के लिए चीन पर दबाव बनाने को अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन बीजिंग पहुंच गए हैं। वह कोशिश करेंगे कि चीन कम अवधि में ही प्रभावी होने वाले कदम उठाए जिससे उत्तर कोरिया पर हथियारों के विकास कार्यक्रम से पीछे हटने का दबाव बढ़े। गुरुवार को ही चीन ने उत्तर कोरिया की कंपनियों से जनवरी 2018 तक अपने देश से काम समेटने के लिए कहा है। उत्तर कोरिया से विवाद के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 3 नवंबर से अपना एशिया दौरा शुरू करेंगे। राष्ट्रपति के तौर पर उनका यह पहला एशिया दौरा है। इस दौरान वह जापान, दक्षिण कोरिया, चीन, वियतनाम और फिलीपींस की यात्रा करेंगे। 11 दिन के एशिया दौरे में ट्रंप कई द्विपक्षीय व बहुपक्षीय चर्चाओं में हिस्सा लेंगे जहां उनका जोर उत्तर कोरिया पर दबाव बनाने पर होगा।

Dakhal News

Dakhal News 30 September 2017


जापान में मध्यावधि चुनाव

  उत्तर कोरिया के साथ बढ़े तनाव के बीच जापान के प्रधानमंत्री शिंजो एबी ने सोमवार को देश में मध्यावधि चुनाव कराने का एलान कर दिया। शिंजो को उम्मीद है कि कमजोर विपक्ष और उत्तर कोरिया पर कड़े रुख के कारण वह सत्ता में बने रहेंगे। दिसंबर, 2012 में सत्ता में आए शिंजो की लोकप्रियता कई घोटालों के कारण पिछले कुछ महीनों में काफी घट गई थी। जुलाई में तो यह न्यूनतम स्तर पर बताई जा रही थी। लेकिन हाल के दिनों में उत्तर कोरिया के साथ तनातनी ने स्थानीय राजनीति का रुख शिंजो के पक्ष में कर दिया। हालिया सर्वेक्षणों में उनके सत्ता में बने रहने का अनुमान लगाया गया है। एबी ने सोमवार को कहा, 'मैं 28 सितंबर को संसद के निचले सदन प्रतिनिधि सभा को भंग कर दूंगा।' उन्होंने हालांकि मतदान की तारीख की घोषणा नहीं की है। लेकिन मीडिया में आई खबरों के अनुसार, जापान में 22 अक्टूबर को चुनाव कराए जाएंगे। हालिया सर्वे बताते हैं कि देश के मतदाता उत्तर कोरिया को लेकर एबी के कड़े रुख का समर्थन करते हैं। उत्तर कोरिया ने इसी महीने जापान के ऊपर से दो बैलिस्टिक मिसाइलें दागी थीं और जापान को समुद्र में डुबोने की धमकी दी थी। बिजनेस अखबार निक्की के सर्वे के मुताबिक, 44 फीसद वोटर एबी की लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी को वोट देने की सोच रहे हैं। जबकि महज आठ फीसद मतदाता विपक्षी डेमोक्रेटिक पार्टी के पक्ष में खड़े दिखाई पड़ रहे हैं।

Dakhal News

Dakhal News 25 September 2017


अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम

  अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की हर हरकत पर मुंबई पुलिस की नजर रहती है, लेकिन हाल ही में हत्थे चढ़े उसके भाई इकबाल कास्कर ने जो खुलासा किया है, वो पुलिस के लिए चौंकाने वाला है। पूछताछ में इकबाल कास्कर ने बताया है कि दाऊद की बीवी मेहजबीन शेख पिछले साल मुंबई आई थी। वह अपने पिता से मिलने भारत आई थी। मालूम हो, इकबाल कास्कर अपने भाई दाऊद के राज खोलता जा रहा है। इससे पहले उसने बताया था कि दाऊद पाकिस्तान में ही है। इकबाल को ठाणे पुलिस की एंटी-एक्सटॉर्शन सेल ने इसी हफ्ते गिरफ्तार किया है। उसने अपने ताजा खुलासे में बताया है कि दाऊद की बीवी को लोग जुबीना जरिन के नाम से भी जानते हैं। वह 2016 में अपने पिता सलीम कश्मीरी से मिलने मुंबई आई थी। सलीम कश्मीर अपने परिवार के साथ मुंबई में ही रहते हैं। इस मुलाकात के बाद दाऊद की बीवी गुपचुप तरीके से भारत से बाहर चली गई। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, इकबाल कास्कर ने दाऊद के चार पते बताए हैं। ये सभी पते कराची के हैं। दाऊद, अपने भाई अनीस इब्राहिम और सहयोगी छोटा शकील के साथ पाकिस्तान के इस शहर की पॉश कॉलोनी में रहता है। अनीस मुंबई में अपने परिवार को ईद या अन्य मौकों पर फोन करता रहता है। दाऊद ऐसा नहीं करता है, क्योंकि उसे डर है कि कहीं उसके कॉल भारतीय खुफिया एजेंसियों द्वारा ट्रेस न कर लिए जाएं। अधिकारियों के अनुसार, इकबाल कास्कर से दाऊद के स्वास्थ्य को लेकर कई सवाल पूछे गए हैं। उसने बताया है कि दाऊद सेहतमंद है और जैसा कि भारतीय मीडिया में खबरें दी गई हैं कि उसके कई अंग खराब हो चुके हैं, ऐसा नहीं है।  

Dakhal News

Dakhal News 23 September 2017


हिजबुल आतंकी आदिल

 सुरक्षाबलों ने कश्मीर घाटी में अपने आतंकरोधी अभियान को जारी रखते हुए बुधवार के बीजबेहाड़ा रेलवे स्टेशन से हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी आदिल को पकड़ने के अलावा खाग-बडगाम में सर्च ऑपरेशन भी चलाया। इसी दौरान, सुरक्षाबलों ने ओमपोरा, बडगाम में एक जिंदा बम को निष्क्रिय कर एक बड़े हादसे को टाल दिया। मिली जानकारी के अनुसार, तीन लाख का इनामी हिज्बुल आतंकी आदिल अहमद बट बुधवार की सुबह अनंतनाग में अपने एक साथी से मिलने के बाद अपने एक ठिकाने की तरफ जा रहा था। वह बीजबेहाड़ा रेलवे स्टेशन पर आया था और उसी समय सुरक्षाबलों को उसकी भनक लग गई। सुरक्षाबलों ने सुनियोजित तरीके से रेलवे स्टेशन की घेराबंदी करते हुए विभिन्न जगहों पर विशेष दस्ते तैनात कर दिए और जैसे ही आदिल बट की निशानदेही हुई, सुरक्षाबलों ने उसे भागने का मौका दिए बगैर पकड़ लिया। जिला अनंतनाग में जबलीपोरा बीजबेहाड़ा के रहने वाले सी-श्रेणी के आतंकी आदिल की पुलिस को विभिन्न सुरक्षा चौकियों पर हमले और पंचायत प्रतिनिधियों व पुलिसकर्मियों के परिजनों के साथ मारपीट की विभिन्न वारदातों में तलाश थी। फिलहाल, उससे पूछताछ जारी है। इस बीच, जिला बडगाम के ओमपोरा में बुधवार की सुबह उस समय सनसनी फैल गई, जब लोगों ने जम्मू-कश्मीर बैंक के पास एक ग्रेनेड को देखा। सूचना मिलते ही पुलिस बम निरोधक दस्ते संग मौके पर पहुंची और उसने सड़क को आम आवाजाही के लिए बंद करते हुए लोगों को वहां से हटाया। इसके बाद बम निरोधक दस्ते ने ग्रेनेड को अपने कब्जे में लेकर निष्क्रिय बना दिया। संबंधित अधिकारियों की मानें तो यह ग्रेनेड काफी पुराना था और वहां जमीन में दबा था जो आज किसी तरह बाहर निकल आया था। जिला बडगाम से मिली एक अन्य सूचना के मुताबिक पुलिस और सेना के संयुक्त टीम ने खाग में आतंकियों के छिपे होने की सूचना पर घेराबंदी कर करीब तीन घंटे तक तलाशी ली, लेकिन आतंकियों का उन्हें कोई सुराग नहीं मिला।

Dakhal News

Dakhal News 20 September 2017


पनामा पेपर स्कैंडल

  पनामा पेपर स्कैंडल मामले में पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद प्रधानमंत्री पद से हटाए गए नवाज शरीफ की पत्नी बेगम कुलसुम लाहौर सीट का उपचुनाव जीत गई हैं। यह चुनाव शरीफ परिवार के लिए आम समर्थन की एक परीक्षा माना जा रहा था। शरीफ को अयोग्य ठहराए जाने के कारण यह उपचुनाव हुआ। बेगम कुलसुम ने एनए-120 सीट पर निकटतम प्रतिद्वंद्वी पूर्व क्रिकेटर के नेतृत्व वाली पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी की यास्मिन राशिद को 13 हजार से ज्यादा वोटों से हराया। चुनाव आयोग के प्रवक्ता ने बताया कि कुलसुम को 59,413 वोट मिले जबकि उनकी प्रतिद्वंद्वी राशिद को 46,145 वोट मिले। मालूम हो, बीते दिनों पता चला है कि कुलसुम को गले का कैंसर है। उनका विदेश में इलाज चल रहा है। इस दौरान चुनाव प्रचार की कमान पूरी तरह से बेटी मरियम शरीफ ने संभाली। बीते दिनों खबर आई थी कि शरीफ की बेटी मरियम शरीफ ने नेशनल असेंबली की लाहौर सीट पर होने वाले उपचुनाव के कारण अपनी ब्रिटेन यात्रा टाल दी है। वह मां को देखने के लिए लंदन जाने वाली थीं। पूरा मामले में नवाज शरीफ और उनके परिवार की मुश्किल कम नहीं हुई हैं। सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्यीय पीठ ने शरीफ को संसद की सदस्यता के अयोग्य ठहरा दिया था जिसके चलते उन्हें प्रधानमंत्री की कुर्सी छोड़नी पड़ी थी। 28 जुलाई के इस आदेश के विरोध में शरीफ, उनके बेटे-हसन व हमजा, बेटी मरियम और दामाद मुहम्मद सफदर ने सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दायर की थी, जिसे खारिज कर दिया गया है।  

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2017


गुरुग्राम  रेयान स्कूल

गुरुग्राम में  रेयान स्कूल में हुई 7 साल के प्रद्युम्न की हत्या के 10 दिन बाद स्कूल सोमवार को फिर खुला। अगले तीन महीने तक स्कूल का मैनेजमेंट प्रशासन के हाथ में रहेगा। स्कूल खुलने को लेकर प्रद्युम्न के पिता ने विरोध जताते हुए कहा कि इससे हत्या के सूबत नष्ट होने का खतरा रहेगा। वहीं स्कूल खुलते ही बच्चे वक्त पर पहुंचे लेकिन उनमें और उनके माता-पिता में अजीब सा डर समा गया है। बच्चों की पढ़ाई का नुकसान ना हो इसके चलते माता-पिता अपने बच्चों को स्कूल लेकर पहुंचे लेकिन उनके चेहरों पर डर साफ नजर आ रहा था। एक बच्चे के पिता ने कहा कि हमारे बच्चे जब तक स्कूल से घर नहीं आ जाएंगे हमें डर रहेगा। वहीं एक अन्य ने कहा कि स्कूल के स्टाफ का बैकग्राउंड चैक होना चाहिए साथ ही स्कूल में पढ़े-लिखे लोगों को नौकरी दी जानी चाहिए।

Dakhal News

Dakhal News 18 September 2017


राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

  अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपनी हार का दोष दूसरों पर मढ़ने के लिए हिलेरी क्लिंटन की आलोचना की है। ट्रंप ने कहा, 'धूर्त हिलेरी अपने अतिरिक्त हर किसी को अपनी हार का दोषी बताती हैं। वह बहस हार गईं और साथ ही चुनाव जीतने की अपनी दिशा भी। उन्होंने चुनाव के लिए भारी मात्रा में धन खर्च किया था लेकिन अंत में उनके हाथ कुछ नहीं लगा।' मालूम हो कि हिलेरी ने अपनी नई किताब 'व्हाट हैप्पेंड' में राष्ट्रपति चुनावों में ट्रंप से मिली अप्रत्याशित हार के कारणों का जिक्र किया है। मंगलवार को आई इस आत्मकथा पर शुरुआत में ट्रंप ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी थी। सिर्फ ह्वाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने हिलेरी की किताब को 'सैड' करार दिया था। सैंडर्स ने कहा, 'हिलेरी क्लिंटन ने चुनाव जीतने के लिए दुनिया का सबसे नकारात्मक प्रचार अभियान चलाया था लेकिन वह हार गईं। अब अपने सार्वजनिक जीवन के अंतिम चरण में किताब की बिक्री बढ़ाने के लिए झूठे हमलों का प्रयोग कर रहीं हैं।

Dakhal News

Dakhal News 14 September 2017


इराक  इस्लामिक स्टेट

इराक से इस्लामिक स्टेट का पूरी तरफ सफाया करने के लिए सेना ने पूरी ताकत झोंक दी है। आंतकियों की कमर तोड़ने के इरादे से हवाई हमले किए जा रहे हैं। इराकी सेना ने ऐसे ही एक हमले में ये दावा किया कि एक हवाई हमले में आईएस के 15 आंतकी ढेर हो गए।ईराकी सेना ने शुक्रवार को दीयाला की प्रांतीय राजधानी बकूबा से 60 किमी पूर्व आईएस इलाकों पर हवाई हमले किए। शिन्हुआ न्युज एजेंसी की एक रिपोर्ट के अनुसार, अजावी के नेतृत्व वाले हवाई हमले में आईएस का एक वाहन, पांच मोटरसाइकिलें, आईएस आतंकियों के पांच ठिकानों और दो नौकाओं को निशाना बनाया गया। अज़ावी ने यह भी कहा कि उनके नेतृत्व में सैनिकों ने बगदाद के लगभग 65 किमी उत्तर-पूर्व में बकूबा में गैटून क्षेत्र में एक अपार्टमेंट में भी छापा मारा, जहां से दो विस्फोटक और गोला-बारूद जब्त किए गए। उन्होंने बताया कि आईएस आतंकी अभी भी दीयाला के हिमरीन पहाड़ी इलाके में सक्रिय हैं। इससे पहले 31 अगस्त को इराकी प्रधान मंत्री हैदर अल-अबादी ने ताल्ल अफ़ार और आस-पास के इलाकों के शहर को पूर्ण आतंकमुक्त घोषित कर दिया था। इराकी सेना अब आईएस आतंकियों के नए इलाकों हविजाह और किर्कुक के तेल-समृद्ध पश्चिम के आसपास क्षेत्रों पर हमले की तैयारी कर रहा है।

Dakhal News

Dakhal News 10 September 2017


भूकंप मैक्सिको

  मैक्सिको में पिछले सौ साल का सबसे भीषण भूकंप आया है। रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 8.2 मापी गई है। भूकंप के झटकों से सबसे ज्यादा दक्षिणी प्रांत ओक्साका प्रभावित हुआ है। जान गंवाने वाले 32 लोगों में से 20 इसी राज्य में मारे गए। इमारतों को व्यापक पैमाने पर नुकसान पहुंचने की बात कही जा रही है। भूकंप की तीव्रता को देखते हुए तटवर्ती इलाकों के लिए सुनामी की चेतावनी भी जारी की गई थी। भूकंप का झटका सबसे पहले स्थानीय समय के अनुसार गुरुवार रात 11:49 बजे तटवर्ती शहर टोनाला (दक्षिणी प्रांत चियापस) से तकरीबन सौ किलोमीटर दूर महसूस किया गया था। इससे पहले वर्ष 1985 में मेक्सिको में इतनी ही तीव्रता का भूकंप आया था, जिसमें दस हजार से ज्यादा लोग मारे गए थे। मैक्सिको के राष्ट्रपति एनरिक पेना नीटो ने कहा, "तीव्रता के लिहाज से यह पिछले सौ साल का सबसे भीषण भूकंप है। देश की 12 करोड़ की आबादी में से पांच करोड़ लोगों ने भूकंप के झटकों को महसूस किया।" नीटो ने राष्ट्रीय आपदा रोकथाम केंद्र पहुंच कर स्थिति का जायजा लिया। वह खुद राहत एवं बचाव कार्य की निगरानी कर रहे हैं। भूकंप के झटके केंद्र से तकरीबन 800 किलोमीटर दूर मैक्सिको सिटी तक महसूस किए गए। ग्वाटेमाला में भी धरती डोली है। सायरन सुनकर मची अफरातफरी आधी रात को भूकंप की चेतावनी वाला सायरन सुनकर अफरातफरी मच गई। बदहवास लोग जिस हालत में थे, उसी स्थिति में घर से बाहर भागे। प्राकृतिक आपदा से ओक्साका प्रांत में सबसे ज्यादा तबाही हुई है। अकेले जुचितान शहर में 17 की जान चली गई। इमर्जेंसी रिस्पांस एजेंसी के निदेशक लुइस फिलिप प्यूंटे ने कई मकान के ध्वस्त होने की जानकारी दी है। तबास्को प्रांत के एक अस्पताल में बिजली जाने से एक बच्चे की मौत हो गई। अधिकारियों ने मरने वालों की तादाद बढ़ने की आशंका जताई है। देश के 11 राज्यों में स्कूलों को बंद रखने का निर्देश दिया गया है।

Dakhal News

Dakhal News 8 September 2017


putin

  अमेरिका और नॉर्थ कोरिया के बीच जारी तनाव में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन भी कूद गए हैं। उन्होंने अपने एक लेख में इन दोनों देशों के विवाद के किसी बड़े युद्ध में बदलने की चेतावनी दी है। उन्होंने आगाह किया है कि नॉर्थ कोरिया पर दबाव बढ़ाने के परिणाम घातक हो सकते हैं। उन्होंने कहा है कि कोरियाई प्रायद्वीप के हालात बिगड़ रहे हैं। इसलिए दोनों पक्ष सीधे वार्ता के जरिए मतभेद और समस्याएं सुलझाएं। पुतिन ने चीन में होने वाले ब्रिक्स सम्मेलन से पहले लिखे लेख में यह चेतावनी दी है। यह लेख क्रेमलिन की वेबसाइट पर डाला गया है, जबकि फ्रांस ने उत्तर कोरिया के लंबी दूरी की बैलेस्टिक बनाने को लेकर आगाह किया है। इस बीच, स्पेन की सरकार ने मिसाइल परीक्षण को लेकर उत्तर कोरिया के राजदूत किम होक चोल को निष्कासित कर दिया। उधर, फ्रांस के विदेश मंत्री जीन-वेस ली ड्रायन ने कहा कि उत्तर कोरिया जिस तरह से उद्देश्य बनाकर गंभीर प्रयास कर रहा है, उससे वह कुछ ही महीनों में लंबी दूरी की बैलेस्टिक मिसाइल बनाने में सक्षम हो जाएगा। यह जानकारी उन्हें अपने खुफिया तंत्र से मिली है। ड्रायन ने कहा, 'उत्तर कोरिया खुद को दुनिया में कहीं भी परमाणु हमला करने में सक्षम बनाना चाहता है, जो बहुत खतरनाक उद्देश्य है। आज वह अमेरिका और कुछ हद तक यूरोप पर हमला करना चाहता है। लेकिन किसी दिन उसके निशाने पर जापान और चीन भी होंगे। यह स्थिति विस्फोटक होगी। फ्रांस ने चीन से अनुरोध किया है कि वह अपने प्रभाव का इस्तेमाल करके मित्र राष्ट्र को हथियारों के विकास से रोके। ली ड्रायन ने यह बात पेरिस में चीनी विदेश मंत्री वांग ई के साथ वार्ता में कही। लंबी दूरी की बैलेस्टिक मिसाइल 10 हजार किमी की दूरी तक निशाना लगाने में सक्षम होती है। इस बीच, अमेरिकी रक्षा मंत्री जिम मैटिस ने उत्तर कोरिया मसले पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से किसी तरह के मतभेद से इनकार किया है। उत्‍तर कोरिया यात्रा पर प्रतिबंध प्रभावी ट्रंप प्रशासन द्वारा अमेरिकी नागरिकों की उत्तर कोरिया यात्रा पर लगाया गया प्रतिबंध शुक्रवार से प्रभावी हो गया। यह प्रतिबंध जून में हुई अमेरिकी छात्र ओट्टो वार्मबियर की मौत के बाद लगाया गया था। उत्तर कोरिया में वार्मबियर को राष्ट्र विरोधी पोस्टर बनाने के आरोप में गिरफ्तार करके 15 साल के कठोर कारावास की सजा दी गई थी। कारावास में ही उसके साथ जो क्रूरता हुई उससे वह कौमा में चला गया। उसी अवस्था में उसे इलाज के लिए रिहा किया गया। बाद में अमेरिका में वार्मबियर की मौत हो गई थी।  

Dakhal News

Dakhal News 3 September 2017


आतंकी राजनीतिक पार्टियां

  मौजूदा दौर में पाकिस्तान आतंक का सबसे अड्डा है। खुद अमेरिका राष्ट्रपति ट्रंप भी खुले तौर पर इसे बोल चुके हैं। ऐसे में आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई को लेकर अंतरराष्‍ट्रीय समुदाय की ओर से दबाव बढ़ता जा रहा है। वहीं अब ये खबर आ रही है कि पाकिस्‍तान स्थित आतंकी संगठनों ने अपने बचाव के लिए एक नया रास्‍ता तलाश्‍ा लिया है। खबरों की मानें तो अब ये संगठन सुरक्षा कवच के तौर पर अपनी राजनीतिक पार्टियां बना रहे हैं। तभी तो जमात-उद-दावा प्रमुख हाफिज सईद द्वारा अपनी राजनीतिक पार्टी बनाने के कुछ हफ्तों बाद ही अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित किए जा चुके फजलुर रहमान खलिल ने अपनी पार्टी बनाने की घोषणा कर दी है। वहीं इस नए चलन की वजह से भारतीय खुफिया एजेंसियां सतर्क हो गई हैं। रक्षा सूत्रों के मुताबिक, कुछ दिन पहले ही खलिल ने पाकिस्तानी मीडिया को यह जानकारी दी है कि वह अपनी पार्टी बना रहा है, जिसका नाम इसलाह-ए-वतन होगा। पाकिस्तान में राजनीतिक पार्टी बनाने का यह चलन अमेरिका द्वारा जमात-उद-दावा और अन्य आतंकी संगठनों पर लगाए जा रहे प्रतिबंधों के बाद आया है। खुफिया अधिकारियों के मुताबिक, राजनीतिक पार्टी बनाने से इन आतंकवादियों को एक कवच मिल जाता है और इनका संगठन भी मुख्यधारा में बना रहता है। एक अधिकारी ने बताया कि ऐसा करने से न सिर्फ आतंकवादी संगठनों को पश्चिमी देशों के पाकिस्तान पर बढ़ते दबाव से छुटकारा पाने में मदद मिलेगी। वहीं इसकी आड़ में वो अपने आतंकी मकसदों को कानूनी तौर पर अंजाम दे पाएंगे। एक बार राजनीतिक पार्टी आती है तो सभी प्रतिबंधित सदस्य कानूनी रूप से वैध पार्टी के सदस्य बन जाते हैं।

Dakhal News

Dakhal News 1 September 2017


शिवराज सिंह चौहान

एमपी के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नर्मदा सेवा यात्रा के दौरान चिन्हित कार्यों की जमीनी हकीकत स्वयं देखेंगे। प्रगति का रिपोर्ट कार्ड जनता के समक्ष रखेंगे। श्री चौहान आज मंत्रालय में नर्मदा सेवा मिशन की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में म.प्र. जन अभियान परिषद के उपाध्यक्ष सर्वश्री प्रदीप पाण्डे, राघवेन्द्र गौतम, मिशन से संबंधित विभागों के अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव, सचिव एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। अधिकारियों ने मिशन अंतर्गत किये गये विभागीय कार्यों का विवरण प्रस्तुत किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मिशन अंतर्गत कार्यों की प्रति माह मानीटरिंग की जाएगी। नर्मदा सेवा यात्रा के एक वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर नर्मदा तटीय क्षेत्रों का भ्रमण करेंगे। कार्यों की प्रगति की समीक्षा करेंगे। आमजन को सम्मेलनों का आयोजन कर अब तक पूर्ण और निर्माणाधीन कार्यों की जानकारी देंगे। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि कार्य निर्धारित समय-सीमा में पूर्ण हों। कार्यों की नियमित मानीटरिंग की जाये। कार्यों का भौतिक सत्यापन प्रभावी हो। पूर्ण एवं प्रगतिरत निर्माण कार्यों की फोटो प्राप्त कर कार्य का आकलन किया जाये। यह शत-प्रतिशत सुनिश्चित हो कि नर्मदा में गंदा पानी नहीं मिलने पाये। उन्होंने पौधों की जीवितता की निरंतर निगरानी करने के लिए कहा। बैठक में श्री चौहान ने विभागवार और 16 जिलों के लक्ष्यों और प्रगति की जानकारी प्राप्त की। जनअभियान परिषद को निर्देशित किया कि नर्मदा सेवा मिशन सेवा समितियों का सम्मेलन आयोजित करें। कृषि विभाग को मिशन अंतर्गत रोडमैप के आधार पर प्रति माह प्रगति विवरण देने के निर्देश दिए। बैठक में नगरीय विकास एवं आवास विभाग द्वारा बताया गया कि तटीय क्षेत्र में कचरा एकत्रण की 123 पेटियाँ स्थापित हो गई हैं। घाटों पर 119 चेंजिंग रूम बन गये हैं। प्रतिमा और ताजिये विसर्जन के लिये पृथक से 28 कुंडों का निर्माण कराया गया है। तटीय स्थल पर 19 मुक्तिधाम स्थापित किये गये हैं। मिशन अंतर्गत 44 नगरीय निकायों को इन्टीग्रेटेड सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट के 9 क्लस्टर बनाकर कार्रवाई की जा रही है। प्रत्येक नगरीय निकाय को दो मोबाइल टायलेट भी उपलब्ध करवाए हैं। सार्वजनिक शौचालय सवा चार करोड़ रूपये अधिक व्यय कर बनवाये जा रहे हैं। कुल 20 नगरों के लिए 21 सीवेज परियोजनाएँ बनी हैं। कृषि विभाग द्वारा बताया गया कि कृषि कचरे को खाद में बदलने के 4640 नाडेप, वर्मीकम्पोट की 19 हजार 400 इकाईयाँ स्थापित की गई हैं। बायोगैस की 351 यूनिट भी लगाई जा रही हैं। नर्मदा तटीय इलाके में 21 हजार से अधिक खेतों में मेड़ बंधान कार्य पूर्ण हो गया है। अभी 2634 कार्य प्रगतिरत है। भूमि की जाँच के लिए 15 लाख 12 हजार से ज्यादा मृदा स्वास्थ्य कार्ड वितरित किये गये हैं। जैविक गाँव प्रमाणीकरण कार्य चरणबद्ध ढंग से लक्ष्य अनुसार हो रहा है। वन विभाग ने बताया कि गर्मी में सूखे पत्तों से होने वाली आगजनी को रोकने की कार्य-योजना तैयार हो गई है। पौधों के संरक्षण के लिए एक किलोमीटर वर्ग क्षेत्र में जल संग्रहण के लिये एक-एक जल संरचना का निर्माण करवाया जा रहा है। पौधों के टिश्यू कल्चर के लिये इंदौर की प्रयोगशाला को विस्तारित करवाया जा रहा है। पर्यावरण विभाग ने बताया कि नर्मदा जल की गुणवत्ता का प्रति माह आकलन पब्लिक डॉमिन में प्रदर्शित किया गया है। नदी जल ग्रहण क्षेत्र में स्थापित सभी 11 प्रमुख प्रदूषणकारी उद्योगों में उपचार व्यवस्था की गई है। राज्य स्तर से कैमरों के साथ जीरो डिस्चार्ज की मानीटरिंग भी हो रही है। उद्यानिकी विभाग द्वारा तटीय क्षेत्र में एक किलोमीटर पट्टी तक फल पौधरोपण के लिये 26 हजार 139 कृषकों को जोड़ा गया है और 13 हजार 906 हेक्टर क्षेत्र में 41 लाख 72 हजार फलदार पौधे रोपित हो चुके हैं। विभाग द्वारा कोल्डरूम, शीत भंडारण, प्याज भंडारण की क्षमता वृद्धि, सोलर ड्रायर और प्रसंस्करण उद्योगों को वित्तीय सहायता की पहल की है। ऊर्जा विकास निगम द्वारा तटीय जिलों में सोलर पंप 2 हजार 525, एल.ई.डी. बल्ब 37 लाख 40 हजार, ट्यूब लाइट 1 लाख 3 हजार, फैन 13 हजार 409 वितरण और रूफटॉप सोलर पावर प्लांट की 2 हजार 431 इकाईयों की स्थापना के कार्य किए गए हैं। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा नर्मदा तट निवासियों को वैज्ञानिक तरीके से कचरा निष्पादन, सोलर डायर बनाने का प्रशिक्षण दिया है। दीर्घकाल में नदी स्वास्थ्य सुनिश्चित करने के लिए नदी स्वास्थ्य संकेतक तैयार करने और अनुसंधान के कार्य करवाए जा रहे हैं। नदी विज्ञान की नवीन विधा विकास और अनुसंधान के लिए नव-साहित्य सृजन का कार्य कराया जा रहा है। उद्योग विभाग द्वारा जबलपुर के उमरिया डूगंरिया और होशंगाबाद के मोहासा बाबई औद्योगिक क्षेत्र में सीवेज ट्रीटमेंट प्लाट का निर्माण करवाया जा रहा है जो क्रमश: वर्ष 2018 के अंत और वर्ष 2019 के पूर्वाध में पूर्ण होंगे। जल संसाधन विभाग ने बताया कि नर्मदा पर स्थित बड़े बाँधों के कारण नदी प्रवाह नहीं रूके, इसकी 50 परियोजनाओं पर कार्य चल रहा है। अभी तक 3 परियोजनाएँ पूर्ण हो गई हैं। कुल 28 परियोजनाओं का निर्माण पूर्णता की ओर है। शेष परियोजनाओं में विभिन्न चरणों में कार्य प्रगतिरत है। ग्रामोद्योग विभाग ने बताया कि ग्रामोद्योग की 150 इकाईयाँ स्थापित करवाने का कार्य किया जा रहा है। माटी शिल्पियों के प्रशिक्षण और रेशम कृषकों की सहायता गतिविधियाँ भी प्रगतिरत है। ग्रामीण विकास विभाग ने बताया कि नर्मदा किनारे के ग्रामों को खुले में शौच से मुक्त कराने के कार्य 528 ग्रामों में पूर्ण हो गये है। अभी 205 में कार्य जारी है। बॉयोडिग्रेडबल और नॉनबायोडिग्रेडबल कचरा प्रबंधन का प्रशिक्षण ग्राम पंचायतों को दिया गया है। तीन करोड़ पौधों का रोपण हुआ है। वृक्षों के रखरखाव के लिए 55 हजार व्यक्ति नियुक्त हुये हैं। पौधों का विगत दिनों सत्यापन भी करवाया गया है। स्कूल शिक्षा विभाग ने बताया कि बच्चों और उनके पालकों को नदी संरक्षण के लिए प्रेरित करने आगामी 23 सितम्बर को विद्यालयों में नदी दिवस मनाया जायेगा। इस बारे में पालकों, विद्यार्थियों को संकल्पित करवाने के लिए मिसकॉल रेस्पांस व्यवस्था की पहल की जानकारी दी। पर्यटन निगम द्वारा क्षेत्रांतर्गत 8 होटलों में से 4 में वैज्ञानिक तरीके से कचरा निष्पादन, गाँवों और घाटों को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के कार्यों की जानकारी दी गई। पर्यटन हेतु सौर ऊर्जा चलित 174 नावें उपलब्ध करवाई जा रही हैं। सामाजिक न्याय विभाग द्वारा नशामुक्त समाज निर्माण के लिए जन-जागरण के कार्यों की जानकारी दी गई। राजस्व विभाग ने नदी की सीमाओं का अंकन करवाने, पशुपालन विभाग ने ड्राय डेयरी इकाईयों, चारा उपलब्ध करवाने की व्यवस्थाएं करने, संस्कृति विभाग ने संस्कृति के पुरातात्विक पहलुओं के अन्वेषण, प्रागैतिहासिक गुफाओं के उन्नयन, संत और समाज में समन्वय तथा मेलों में सहायता के किए जा रहे और मत्स्य विभाग ने नदी के गहरे ढहो में मत्स्य बीज संचयन करवाने के कार्यों का ब्यौरा दिया।  

Dakhal News

Dakhal News 24 August 2017


डोकलाम

डोकलाम मामले में जापान द्वारा भारत का समर्थन करना चीन को नागवार गुजरा है। बौखलाए चीन ने जापान से कहा है कि वो इस मुद्दे पर बिना सोचे कोई बयान ना दे। चीन ने जापान से कहा कि अगर वह भारत का साथ देना भी चाहता है तो भी चीन के खिलाफ बयान देने से बचे। जापान ने इस मुद्दे पर भारत का साथ देने की बात कही थी। जापान के राजदूत केनजी हिरामात्सु ने भारतीय राजनयिकों को अपने देश का आधिकारिक रुख स्पष्ट कर दिया है। उसने कहा था कि चीन के साथ डोकलाम विवाद पर भारत के कूटनीतिक प्रयासों का रंग दिखना शुरू हो गया है। इस मसले पर चीन अंतरराष्ट्रीय बिरादरी में घिरता दिख रहा है। अमेरिका के बाद जापान ने भी डोकलाम विवाद पर भारत का समर्थन किया है। जापान ने कहा है कि दोनों देशों के बीच विवाद का हल बातचीत के जरिए होना चाहिए। चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हू चुनयांग प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा कि उन्होंने देखा कि भारत में जापान के अंबेसडर भारत को सपोर्ट करना चाहते हैं। इसलिए चीन उनसे कहना चाहेगा कि वह ऐसे बिना सोचे समझे बयान न दे और कुछ भी बोलने से पहले फेक्ट चेक कर लें। उन्होंने आगे गुस्से में कहा कि डोकलाम में कोई भी बॉर्डर विवाद नहीं है और दोनों देशों को निर्धारित सीमा के बारे में पता है। ऐसे में भारत की और से स्टेटस क्यू में बदलाव की पहल हुई है न कि चीन की ओर से। जापान इस मामले को बेहद करीब से देख रहा है, उसका मानना है कि दोनों देशों के बीच जारी गतिरोध पूरे क्षेत्र की स्थिरता को प्रभावित कर सकता है। हाल ही में चीन के साथ जापान का भी इसी तरह का क्षेत्रीय विवाद चल रहा है। टोक्यो का यह मानना है कि विवादित क्षेत्रों में शामिल सभी दलों को बल द्वारा यथास्थिति को बदलने के एकतरफा प्रयासों का सहारा नहीं लेना चाहिए। जापान के इसी रुख के कारण वह चीन की "यथास्थिति को बदलने" की कोशिश की ग