मप्र में स्टार्टअप में निवेशकों के लिएं असीम संभावनाएं: मुख्यमंत्री शिवराज
indore, Immense possibilities , investors in startups,Chief Minister Shivraj

इंदौर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को इंदौर में स्टार्टअप कर उद्योग जगत, व्यवसाय और निवेशकों में अपना स्थान बनाने वाले उद्योगपतियों से भी चर्चा की और कहा कि आपके द्वारा किये जा रहे काम आपको समाज में अलग पहचान देते हैं। अब आप मध्यप्रदेश के युवाओं को मदद किजिए। उनके स्टार्टअप में इन्वेस्ट कीजिए, जिससे प्रदेश के अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्वयं को स्थापित कर सके और अपने विचारों से समाज में बदलाव लायें।

 

चर्चा के दौरान सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा, जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट, सांसद शंकर लालवानी, भारत सरकार के सचिव अनुराग जैन एमएसएमई विभाग के सचिव पी. नरहरि एवं डॉ. निशांत खरे उपस्थित रहे।

 

मुख्यमंत्री के साथ चर्चा में लीड एंजल्स के डायरेक्टर ध्रूव नाथ, अपाइंट फाउंडर निमेश सिंह, एमवन एक्सचेंज के सर डायरेक्टर अभय सिंह राठौर, आईवेकप वेंचर्स के फाउंडर एण्ड मैनेजिंग पार्टनर विक्रम गुप्ता, श्री राम लाइफ इंश्योरेंस के मैनेजिंग डायरेक्टर मनोज जैन, स्टार्टअप इंडिया गोल की हेड आस्था ग्रोवर, एमआईसी, एमओई, जीओआई के इनोवेशन डायरेक्टर डॉ. मोहित गंभीर, सीईओ सुदीप मोइनद्रू, एफआईसीसीआई की पास्ट प्रेसिडेंट उज्जवला सिंघानिया, आईएएन अल्फा फंड के पार्टनर जयदिप मेहता, टेस्टि बाइट पुणे के को-फाउंडर रवि निगम, डायरेक्टर 14ट्री किरण देशपाण्डे, पारीन शाह, मैनेजिंग जनरल पार्टनर मोहित गुलाटी, टीआईई एमपी जय जैन, टीआईई प्रेसिडेंट प्रदीप करमबेलकर, यूअर नेस्ट कैपिटल एडवाइजर्स प्रायवेट लिमिटेड मैनेजिंग डायरेक्टर सुनील गोयल तथा डलास वेंचर केपिटल फंड पार्टनर श्री किरण चंद्र कल्लुरी सम्मिलित हुए। सभी लोगों ने कहा कि मध्यप्रदेश का यह कदम युवाओं के लिये एक बेहतर माहौल बना रहा है।

 

देश की सबसे अच्छी स्टार्टअप पॉलिसी में मध्यप्रदेश सबसे आगे खड़ा हो गया है। इसके लिये जरूरी है कि मध्यप्रदेश अपनी क्षमताओं को चिन्हित कर स्टार्टअप को आगे बढ़ाएं। कृषि प्रधान व्यवस्था होने के कारण किसानों और खेती के लिये लाये गये स्टार्टअप को स्थानीय स्तर पर प्रचारित किये जाये, जिससे लोगों को अपने काम में मदद मिल सके।

 

श्रीराम लाइफ इंश्योरेंस के मैनेजिंग डायरेक्टर मनोज जैन ने कहा कि मुख्यमंत्री को आज हम मामाजी के रूप में ही पहचानते हैं। देश में आपकी एक अलग पहचान है। हम मध्यप्रदेश के निवासी होने पर गर्व महसूस करते हैं। हम स्टार्टअप को देखकर अचंभित भी हैं। युवाओं की नई सोच के साथ बिजनेस को नई ऊंचाइयां प्रदान कर सकते हैं।

 

अन्य लोगों ने भी मुख्यमंत्री चौहान से चर्चा के दौरान कहा कि मध्यप्रदेश की स्टार्टअप पॉलिसी बहुत अच्छी है। इसके लिये एक बेहतर मार्केटिंग की जाना चाहिये। छोटे स्टार्टअप को सरकार का सहयोग मिलना चाहिये और स्टार्टअप पॉलिसी में लगातार बदलाव भी किये जाना चाहिये। इसके लिये एक वर्किंग ग्रुप बनाकर लगातार स्टार्टअप पॉलिसी के लिये निरन्तर विचार होते रहना चाहिये।

Dakhal News 13 May 2022

Comments

Be First To Comment....

Video

Page Views

  • Last day : 8492
  • Last 7 days : 59228
  • Last 30 days : 77178
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved © 2022 Dakhal News.