मुख्यमंत्री ने मंदसौर में किया मेडिकल कॉलेज का भूमि-पूजन
 Mandsaur, Chief Minister ,performed Bhoomi-Poojan, Medical College

मंदसौर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को मंदसौर में केंद्र व राज्य सरकार के संयुक्त अंशदान से 270 करोड़ 59 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले मेडिकल कॉलेज का भूमि पूजन किया। इस अवसर पर उन्होंने कि एक संसदीय क्षेत्र में 3 मेडिकल कॉलेज बन रहे हैं। यह मेडिकल कॉलेज क्षेत्र के लिए वरदान साबित होगा। अब इन मेडिकल कॉलेजों में श्रेष्ठ डॉक्टरों की टीम द्वारा उपचार किया जाएगा।

 

उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज को बनाने के तीन अलग-अलग जगह पर 73 हजार वर्ग मीटर से अधिक जमीन का चयन किया गया है। इसको पीआईयू विभाग के माध्यम से जेपी स्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के द्वारा निर्माण किया जाएगा। इस 73 हजार वर्ग मीटर से अधिक जगह पर कॉलेज की बिल्डिंग, स्पोर्ट केंपस, यूजी हॉस्टल, डॉक्टर निवास, इंटर्न हॉस्टल, नर्सिंग हॉस्टल, कमर्शियल सेंटर, ऑटोप्सी ब्लॉक, स्टूडेंट रिसर्च सेंटर, गेस्ट हाउस आदि का निर्माण किया जाएगा।

 

इस दौरान वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा, नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री हरदीप सिंह डंग, सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा, सांसद सुधीर गुप्ता, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रियंका मुकेश गिरी गोस्वामी, विधायकगण यशपाल सिंह सिसोदिया, देवीलाल धाकड़, माधव मारू, दिलीप सिंह परिहार, राजेंद्र पांडे के अलावा बंशीलाल गुर्जर, कैलाश चावला, नानालाल अटोलिया, मदनलाल राठौर, मुकेश काला सहित अन्य जनप्रतिनिधि, कलेक्टर गौतम सिंह, पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया सहित सभी जिला अधिकारी, कर्मचारी बड़ी संख्या में आम नागरिक, पत्रकार मौजूद थे।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि शहर में स्वास्थ्य सुविधा को बढ़ावा देने के लिए मेडिकल कॉलेज होगा मिल का पत्थर साबित। आगामी 3 वर्ष में मेडिकल कॉलेज बनकर तैयार हो जाएगा। इसके बाद जिले के आम नागरिकों को अपने इलाज के लिए उदयपुर, अहमदाबाद, इंदौर जैसे बड़े शहरों में नहीं जाना पड़ेगा। मेडिकल कॉलेज निर्मित हो जाने से जिले की जनता को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मिलेगी। जिले में मेडिकल कॉलेज में ही ट्रामा सेंटर, न्यूरो एक्सपर्ट मिलेंगे। अब आम नागरिकों को कम से कम खर्च में बेहतर उपचार की सुविधा मिलेगी। आर्थिक गतिविधियां बढ़ेगी। मेडिकल कॉलेज के शुरू होने से शहर में आर्थिक गतिविधियां तेजी से बढ़ेगी। परिवहन की सुविधा बढ़ेगी।

 

उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज में उपचार के लिए लोग बाहर से आएंगे। जिससे होटल, रेंटल रूम के साथ मेडिकल क्षेत्र में विकास की अपार संभावनाएं बढ़ेगी। शिवना शुद्धिकरण के लिए समाज की भागीदारी परम आवश्यक है। इसके लिए योजना बनाकर राशि को अलग-अलग चरणों में प्रदान किया जाएगा। इसके साथ ही शिवना शुद्धिकरण के लिए सभी समाज को आगे आने की परम आवश्यकता है।

 

50 ई रिक्शा जरूरतमंद महिलाओं को प्रदान किया, मुख्यमंत्री ने की ई-रिक्शा की सवारी

कार्यक्रम में गनेड़ीवाल चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा प्रदान किए गए 50 ई रिक्शा को मुख्यमंत्री चौहान द्वारा जरूरतमंद महिलाओं को प्रदान किया गया। इसी दौरान उन्होंने ई-रिक्शा की सवारी की तथा ई रिक्शा में बैठकर ही मंच तक पहुंचे। इन ऑटो ई रिक्शा से इन महिलाओं को रोजगार प्राप्त होगा। ऑटो ई रिक्शा के संबंध में इन महिलाओं को पहले से ही प्रशिक्षण प्रदान किया जा चुका है। आरटीओ विभाग द्वारा तैयार किए गए लाइसेंस, बीमा संबंधी दस्तावेज भी मुख्यमंत्री द्वारा प्रदान किए गए। मुख्यमंत्री ने ट्रस्ट द्वारा की गए इस कार्य के लिए बहुत-बहुत सराहना की।

 

मां के चरणों में सब प्रणाम करें मां से बड़ी कोई दौलत नहीं

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मां की चरणों में सब प्रणाम करें। मां से बड़ी कोई दौलत नहीं है। जब कोई वृद्ध आश्रम खोलने की बात करता है तो बहुत तकलीफ होती हैं। यह पश्चिमीकरण की देन है। माता पिता की सेवा न करने वालों पर हर्जाना के साथ ही जुर्माना का भी प्रावधान हमारी सरकार के द्वारा कानून बनाकर किया गया है। बेटा बेटियों में कोई भेदभाव ना करें। सब को आगे बढ़ने का समान अधिकार प्रदान करें। महिला सशक्तिकरण का अभियान पूरे प्रदेश में चल रहा है। प्रदेश में पोषण आहार बनाने के लिए स्व सहायता समूह द्वारा युद्ध स्तर पर काम किया जा रहा है। इसके लिए महिलाओं ने ही 8 फैक्ट्री खोली है।

 

एक जिला एक उत्पाद के तहत बने लहसुन के अचार और चटनी को मुख्यमंत्री को भेंट की गई

एक जिला एक उत्पाद के तहत मंदसौर जिले में लहसुन की चटनी, लहसुन का अचार, लहसुन का पेस्ट का निर्माण महिला स्व सहायता समूह के द्वारा किया जा रहा है। इन महिला स्व सहायता समूह के द्वारा इन सभी उत्पादों को मुख्यमंत्री को भेंट किया गया। इस पर मुख्यमंत्री द्वारा कहा गया कि इन उत्पादों को अपनी टेबल पर रखुगा जिससे इसका अधिक से अधिक प्रचार होगा और यहां के उत्पादों की मांग अधिक बढ़ेगी।

 

दलोदा को नगर पंचायत बनाया जाएगा

मुख्यमंत्री ने घोषणा करते हुए कहा कि दलोदा को नगर पंचायत बना दिया जाएगा। मंदसौर का गौरव दिवस 8 दिसंबर के दिन मनाया जाएगा। इसी दिन सम्राट यशोधर्मन ने हुणो पर विजय प्राप्त की थी।

 

कार्यक्रम के दौरान ही बिजली चलित सिलाई मशीन स्व सहायता समूह की महिलाओं को प्रदान की गई। माटी कला का काम करने वाले कुंभकार को इलेक्ट्रॉनिक शेला चाक प्रदान किया गया। इसके साथ ही पाकिस्तान से आकर भारत की नागरिकता प्राप्त करने वाले 5 लोगों ने मुख्यमंत्री से भेंट की।

Dakhal News 8 May 2022

Comments

Be First To Comment....

Video

Page Views

  • Last day : 8492
  • Last 7 days : 59228
  • Last 30 days : 77178
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved © 2022 Dakhal News.