गरीबों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए बनाएंगे स्ट्रीट वेंडर जैसी और योजनाएं: शिवराज
bhopal,More schemes, like street vendors ,poor self-reliant, Shivraj
भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि हमारे गांव के भाई-बहनों के काम-धंधे के लिए रास्ता निकले और जीवन भी सुगम हो, इसलिए हमने ग्रामीण पथ विक्रेता ऋण योजना बनाई। हमारा एक ही लक्ष्य है कि आप बेरोजगार न रहें। अपना काम करने के लिए पैसा सबसे पहली जरूरत है, इसलिए हमने मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता ऋण योजना बनाई। योजना में स्ट्रीट वेंडर्स को 10 हजार रुपये प्रदान किये जाते हैं और इसका ब्याज भी सरकार भरती है। स्ट्रीट वेंडर जैसी और योजनाएं हम बनायेंगे ताकि मेरे अधिक से अधिक गरीब भाई-बहन आत्मनिर्भर बन सकें।
 
मुख्यमंत्री ने यह बातें गुरुवार को भोपाल में आयोजित मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ-विक्रेता योजना अंतर्गत 40 हजार हितग्राहियों को सिंगल क्लिक से ऋण वितरित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि गरीब भी सम्मान के साथ अपना जीवन व्यतीत कर सकें, इसके लिए हम सतत प्रयत्नशील हैं। स्वरोजगार की और योजना बनायेंगे। जितने ग्रामीण पथ विक्रेता हैं उनका रजिस्ट्रेशन कर के उन्हें पहचान पत्र देना है। रजिस्ट्रेशन के बाद पैसा दिलाने की प्रक्रिया जारी रहेगी। मैं सोच रहा हूं कि काम धंधे के लिये कोई ट्रेनिंग मिल जाये तो उनका काम और निखर जायेगा।
 
मुख्यमंत्री ने भोपाल के मिंटो हॉल में आयोजित मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता ऋण योजना के अंतर्गत ऋण वितरण कार्यक्रम में 40 हजार हितग्राहियों के बैंक खातों में सिंगल क्लिक से 10-10 हजार रुपये की ऋण राशि ट्रांसफर कर संवाद किया। उन्होंने कहा कि हमारे यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने शहर में रहने वाले हमारे स्ट्रीट वेंडर्स को आत्मनिर्भर बनाने के लिए पीएम स्वनिधि योजना प्रारंभ की, इसके लिए मैं उनका अभिनंदन करता हूं।
 
उन्होंने कहा कि हमारे गांव के भाई-बहनों के काम-धंधे के लिए भी रास्ता निकले और इनका जीवन भी सुगम हो, इसलिए हमने मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता ऋण योजना बनाई। हमारा एक ही लक्ष्य है कि आप बेरोजगार न रहें। अपना काम करने के लिए पैसा सबसे पहली जरूरत है, इसलिए हमने मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता ऋण योजना बनाई। योजना में स्ट्रीट वेंडर्स को 10 हजार रुपये प्रदान किये जाते हैं और इसका ब्याज भी सरकार भरती है, ताकि आप समर्थ बन सकें।
 
स्ट्रीट वेंडर जैसी और योजनाएं हम बनायेंगे ताकि मेरे अधिक से अधिक गरीब भाई-बहन आत्मनिर्भर बन सकें। सम्मान के साथ आप अपना जीवन व्यतीत कर सकें, इसके लिए हम कटिबद्ध हैं। जीने के लिए रोटी, कपड़ा, मकान और पढ़ाई-लिखाई व दवाई का इंतजाम जरूरी है। रोजगार होगा, तो यह सब संभव होगा। रोटी के इंतजाम के साथ हम अगले तीन सालों में हर गरीब का अपना पक्का मकान हो, हम इसके लिए सतत प्रयत्नशील हैं।


Dakhal News 18 February 2021

Comments

Be First To Comment....

Video

Page Views

  • Last day : 8492
  • Last 7 days : 59228
  • Last 30 days : 77178
x
This website is using cookies. More info. Accept
All Rights Reserved © 2021 Dakhal News.