मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने केन्द्रीय जल संसाधन मंत्री श्री गजेन्द्र सिंह शेखावत को लिखा पत्र
sardar sarovar

सरदार सरोवर जलाशय में जल भराव समय-सारणी का पालन कराने गुजरात सरकार को निर्देशित करे केन्द्र

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने केन्द्र सरकार से सरदार सरोवर जलाशय में जल भराव के संबंध में तय की गई समय-सारणी का पालन करने के लिए गुजरात सरकार को निर्देशित करने का आग्रह किया है। श्री कमल नाथ ने केन्द्रीय मंत्री जल शक्ति, जल संसाधन श्री गजेन्द्र सिंह शेखावत को पत्र लिखकर नर्मदा नियंत्रण प्राधिकरण की बैठक तत्काल बुलाने का आग्रह किया है जिससे इस मुद्दे पर जल्द से जल्द चर्चा हो सके। उन्होंने लिखा कि मध्यप्रदेश के लिए यह विषय अत्यधिक महत्व रखता है क्योंकि सरदार सरोवर परियोजना के प्रभावित क्षेत्र में बड़ी संख्या में राहत और पुनर्वास के काम चल रहे है। 

मुख्यमंत्री ने अपने पत्र में कहा है कि तयशुदा समय-सारणी के अनुसार 31 अगस्त 2019 तक सरदार सरोवर जलाशय को 134 मीटर की ऊँचाई तक भरा जाना था। सितम्बर माह के दौरान जलाशय को सिर्फ 135 मीटर तक भरा जाना था और 15 अक्टूबर 2019 तक जलाशय को 138.68 मीटर के अंतिम स्तर भरा जाना था। 

मुख्यमंत्री ने पत्र में लिखा कि हालांकि 4 सितम्बर 2019 को दोपहर 12 बजे तक जलाशय 135.47 मीटर तक भर चुका था। इससे स्पष्ट है कि नर्मदा नियंत्रण प्राधिकरण द्वारा उपलब्ध कराई गई समय-सारणी का उल्लघंन हुआ है जो प्राधिकरण ने दिनांक 10 मई 2019 को जारी की थी। उन्होंने कहा कि यह भी स्पष्ट नहीं है कि बांध सुरक्षा के मान्य उपायों को अपनाया गया है या नहीं। नर्मदा नियंत्रण प्राधिकरण की ओर से किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं की जाना समझ से परे है। नर्मदा नियंत्रण प्राधिकरण द्वारा इस संबंध में स्वत: कार्रवाई की जाना अपेक्षित है। श्री कमल नाथ ने कहा कि सरदार सरोवर परियोजना में जल भराव को समय-सारणी अनुसार नियंत्रित किया जाना अपेक्षित है जैसा कि इस पर सहमति हुई थी। इसी बीच गुजरात सरकार को तयशुदा समय-सारणी का पालन करने के लिए निर्देशित किया जाना चाहिए जैसा कि नर्मदा नियंत्रण प्राधिकरण के 10 मई 2019 के पत्र में उल्लेख किया गया है। 

 

Dakhal News 11 September 2019

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 4514
  • Last 7 days : 20011
  • Last 30 days : 87818
All Rights Reserved © 2019 Dakhal News.