गोगानवमी पर सफाई कर्मचारी अवकाश पर थे

 

सबसे साफ़ शहर के लोग हैं ज्यादा जगरूक

2 हजार लोग सफाई करने उतरे सड़कों पर

 

हर साल की तरह इस साल भी नगर निगम में काम करने वाले वाल्मीकि समाज के सफाईकर्मियों की रविवार को गोगानवमी पर अवकाश है, लेकिन इससे शहर की सफाई व्यवस्था प्रभावित नहीं हुई  |  यह काम शहर की विभिन्न सामाजिक, व्यावसायिक संस्थाओं के प्रतिनिधि, निजी कंपनियों के कर्मचारी, बैंक कर्मी, छात्र-छात्राएं, रहवासी संगठन और एनजीओ प्रतिनिधिनियों ने संभाला  |   ऐसे करीब दो हजार नागरिकों ने रविवार सुबह सफाई व्यवस्था में श्रमदान किया | 

 

इन्दौर के सफाई कर्मचारी गोगानवमी के मौके पर अवकाश पर थे   | ऐसे में शहर साफ़ करने के लिए लोग सड़कों पर उतर आये  |  इंदौर के लोगों का सफाई के प्रति जूनून देखने लायक था  |  सुबह सात बजे से ये लोग शहर के अलग-अलग हिस्सों में जुटे और प्रमुख स्थानों और सड़कों की सफाई की  |  

निगमायुक्त आशीष सिंह ने बताया कि सफाई कर्मियों के छुट्टी पर होने से शहर की सफाई प्रभावित न हो और सफाई के क्षेत्र में बनी इंदौर की पहचान बनाए रखें  |  इसके लिए संगठनों से आग्रह किया गया था कि वे एक दिन सुबह दो-तीन घंटे का समय शहर के लिए निकालें  |   इस दौरान सुबह खुद निगमायुक्त और नगर निगम के अन्य अधिकारी भी सफाई अभियान में शामिल हुए  |  निगमायुक्त ने शनिवार को अधिकारियों के साथ बैठक कर स्वच्छता सर्वे 2020 की तैयारियां युद्ध स्तर पर करने के निर्देश दिए  |   सिटी बस ऑफिस में हुई बैठक में उन्होंने स्वच्छ सर्वे की स्टार रेटिंग के मापदंड और बिंदु बताए   | उन्होंने कहा कि निगम स्वच्छता का चौका लगाने के लिए सारी तैयारियां पूरी रखें  |  इस बीच गोगानवमी का मसला आया तो शहर की विभिन्न सामाजिक, व्यावसायिक संस्थाओं के प्रतिनिधि, निजी कंपनियों के कर्मचारी, बैंक कर्मी, छात्र-छात्राएं, रहवासी संगठन और एनजीओ प्रतिनिधिनियों ने खुद सफाई का मोर्चा सम्हाल लिया और पूरे देश को स्वछता को लेकर एक ख़ास सन्देश भी दे दिया कि आम लोग चाहें तो चुटकी बजाते ही पूरा शहर साफ़ हो सकता है  | 

 

Dakhal News 25 August 2019

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 4514
  • Last 7 days : 20011
  • Last 30 days : 87818
All Rights Reserved © 2019 Dakhal News.