जबलपुर के इनामी अपराधी एनकाउंटर में ढेर

 

एनकाउंटर की  मजिस्ट्रियल जांच के आदेश

 

जबलपुर के दो नामी बदमाशों  को नरसिंहपुर पुलिस ने मार गिराया है  | दोनों पर हत्या, लूटपाट,अवैध वसूली सहित अन्य गंभीर मामले दर्ज थे  |  पुलिस मुठभेड़ में मारे गए बदमाशों का नाम विजय  यादव और समीर खान बताए  है  |  इन पर जबलपुर के कांग्रेस नेता राजू मिश्रा और कुक्कू पंजाबी की हत्या का भी आरोप था  | इस मुठभेड़ में एएसपी राजेश तिवारी, गोटेगांव टीआई प्रभात शुक्ला और एक प्रधान आरक्षक भी घायल हुए हैं  | इस मुठभेड़  की  मजिस्ट्रियल जांच के आदेश भी किये गए हैं  |

मुठभेड़ नरसिंहपुर के सुआतला थाना के कुमरोडा गांव के पास हुई   |   इसमें जबलपुर के दो इनामी बदमाश मारे गए हैं  |   जबलपुर के कोतवाली थाने ने इन दो बदमाशों के खिलाफ इनाम का ऐलान किया हुआ था  |   विजय यादव के बारे में जानकारी देने पर तीस हजार और समीर खान के बारे में बताने पर 15 हजार का इनाम घोषित  था   |   विजय यादव लंबे वक्त से फरार चल रहा था  |    वो जबलपुर के गोरखपुर इलाके का रहने वाला था  |    इस पर हत्या, आर्म्स एक्ट के अलावा कई और संगीन धाराओं में मामले दर्ज थे   |   वहीं इस मुठभेड़ में मारा गया दूसरा  बदमाश समीर हनुमानताल का रहने वाला था और उस पर भी कई गंभीर धाराओं में मामले दर्ज थे और वो भी लंबे वक्त से फरार चल रहा था  |     इस एनकाउंटर में घायल हुए पुलिस अफसरों को जिला अस्पताल लाया गया है  |  यहां सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं  | 

 

मुठभेड़ सोमवार तड़के तीन बजे नेशनल हाईवे 12 पर हुई  |  जिसमें राजेश शर्मा नाम के एक प्रधान आरक्षक भी घायल हुए हैं  |    जिन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया गया है   |  एनकाउंटर में शामिल रहे एएसपी राजेश तिवारी ने बताया कि पुलिस को मुखबिर से बदमाशों के इलाके में बड़ी वारदात अंजाम देने की जानकारी मिली थी  |   इसके बाद इलाके में तलाशी अभियान चलाया गया था    सोमवार तड़के तीन बजे पुलिस को एक गाड़ी नजर आई  .जिसे रोकने की कोशिश की गई तो अंदर से फायरिंग शुरू हो गई  |   पुलिस ने मोर्चा लेते हुए जवाबी फायरिंग की  |   जिसमें कार में बैठे दो बदमाशों को गोली लगी  |   जिन्हें  स्थानीय अस्पताल ले जाया गया  |   जहां दोनों को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया  |    एनकाउंटर के दौरान दोनों तरफ से 15 से 17 राउंड गोली चली है  |  

 

दोनों बदमाशों  विजय यादव और समीर खान का पूरे महाकोशल में दबदबा था   |  दोनों पर हत्या, अपहरण और अवैध वसूली से जुड़े कई गंभीर मामले दर्ज थे   नरसिंहपुर एसपी गुरुकरण सिंह ने बताया कि, "ये दोनों बदमाश ढाई साल से फरार चल रहे थे   |  सोमवार तड़के जब इन्हें रोकने की कोशिश की तो इन्होंने पुलिस पर फायरिंग कर दी |    जवाबी कार्रवाई में दोनों बदमाश ढेर हो गए  |    मामले की गंभीरता को देखते हुए मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए गए हैं |   

 

Dakhal News 19 August 2019

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 4514
  • Last 7 days : 20011
  • Last 30 days : 87818
All Rights Reserved © 2019 Dakhal News.