प्रियंका बोलीं भारतीय फ़िल्में महिला को वस्तु की तरह दिखाती हैं
प्रियंका चोपड़ा

 

प्रियंका चोपड़ा ने एक इंटरव्यू में उन्होंने भारतीय फिल्मों को लेकर कुछ ऐसा कहा है कि जिसके चलते उनके बयान की कड़ी आलोचना हो रही है। इतना ही नहीं सोशल मीडिया पर उन्हें ट्रोल किया जा रहा है और उन्हें कड़े शब्दों में उनकी आलोचना की जा रही है।

एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा है कि भारतीय फिल्मों के साथ कुछ ऐसा है कि वह मात्र महिलाओं को एक वस्तु की तरह दर्शाते हैं जिस में भी महिलाओं के कुल्हे और स्तनों का महत्व अधिक होता है, इसलिए पूरी फिल्में शरीर के अंगों को ज्यादा महत्व देती है। प्रियंका चोपड़ा कहती है, भारतीय फिल्मों के साथ कुछ ऐसा है कि वह महिलाओं के मात्र शरीर के अंगों को दर्शाते है, जिसके चलते पूरी बात शरीर के अंगों को लेकर होती है।

गौरतलब है कि फिल्म अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा बॉलीवुड की प्रसिद्ध अभिनेत्री रही है। बॉलीवुड में उनका लंबा करियर रहा है, जिसके चलते ही उनकी पहचान बनी है और विश्व स्तर पर आज काम कर रही है। ऐसे में लोगों ने यह प्रश्न उठाना शुरू कर दिया है कि अगर बॉलीवुड में मात्र महिलाओं के शरीर के अंगों की बात थी तो उन्होंने इतना लंबे समय तक काम कैसे किया। इसके अलावा लोग कह रहे हैं कि अगर ऐसा था तो उन्होंने पहले इसके बारे में आवाज क्यों नहीं उठाई।

गौरतलब है कि फिल्म इंडस्ट्री में महिलाओं की जो भूमिका होती है, वह अभिनेताओं के मुकाबले कम होती है। हालांकि अब इस सोच में बदलाव आया है और पिछले कई वर्षों से बहुत सारी महिला प्रधान फिल्में बनी है जिनमें कंगना रनौत की क्वीन और रवीना की मात्र शामिल है। प्रियंका चोपड़ा बॉलीवुड का बयान अभिनेत्रियों की स्थिति को दर्शाता है। हाल ही में उन्होंने उनकी वेब सीरीज में एक विवादित सीन भी किया था, जिसके बाद उन्होंने उसके लिए माफी भी मांगी। अब देखते हैं क्या उनके इस बयान पर भी वह क्षमा मांगती है या नहीं।

 

Dakhal News 11 June 2018

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 2440
  • Last 7 days : 16390
  • Last 30 days : 59545
All Rights Reserved © 2018 Dakhal News.