पुलिस -रेत माफिया का स्टिंग करने वाले पत्रकार को ट्रकने कुचला,पत्रकार की मौत
पत्रकार संदीप शर्मा

 

 

 

मध्यप्रदेश के भिंड में   रेत माफिया और पुलिस की साठ-गाठ का खुलासा करने वाले पत्रकार संदीप शर्मा को एक ट्रक ने कुचल दिया, जिससे उनकी मौत हो गई| वहीं यह सिर्फ एक हादसा नहीं बल्कि हत्या की साजिश की आशंका जताई जा रही है| इस मामले के तूल पकड़ने के बाद एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने इस मामले की सीबीआई से जाँच करवाने की बात कही है। 

संदीप शर्मा तत्कालीन अटेर एसडीओपी इंद्रवीर भदौरिया का स्टिंग कर चर्चा में आए थे। संदीप ने रेत माफिया और पुलिस की साठगांठ का खुलासा करने के बाद झूठे प्रकरण में फंसाने और हत्या की साजिश रचने की आशंका पहले ही जाहिर की थी और एसपी को पत्र लिखकर सुरक्षा की भी मांग की थी और सोमवार को एक घटना में उनकी मौत हो गई| घटना का सीसीटीवी वीडियो भी वायरल हुआ है, जिसके आधार पर हत्या की आशंका जताई जा रही है| फिलहाल पत्रकार संदीप शर्मा की मौत की जांच के लिए एसपी प्रशांत खरे ने एसआईटी गठित की है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक सोमवार को सुबह एक ट्रक ने बाइक पर जा रहे पत्रकार संदीप  शर्मा को कुचल दिया और तेजी से ट्रक चालक ट्रक लेकर मौके से फरार हो गया|  हादसे के बाद जो सीसीटीवी फुटेज सामने आए हैं उसमें स्पष्ट दिखाई दे रहा है ट्रक चालक ने संदीप शर्मा को जानबूझकर मारा है । फुटेज में स्पष्ट दिखाई दे रहा है कि संदीप शर्मा बिल्कुल सड़क के किनारे कच्चे रास्ते में खड़े हुए थे और ट्रक चालक ने इतना ज्यादा ट्रक घुमाया कि वे उसकी चपेट में आ गए और जिससे उनकी मौत हो गई | इसके बाद में डायल हंड्रेड उनको लेकर जिला चिकित्सालय पहुंची तो डायल हंड्रेड के कर्मियों के द्वारा उन्हें सीधे डेड हाउस भेज दिया गया । जबकि नियमानुसार उन्हें ट्रॉमा सेंटर ले जाना था जहां पर उनका इलाज किया जा सकता था  । जब कुछ पत्रकार साथियों ने इस बात पर आपत्ति जताई तो उनके घायल शरीर को ट्रामा सेंटर लाया गया जहां चेकअप के बाद चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित किया |

ज्ञात हो कि पत्रकार संदीप शर्मा ने करीब 6 महीने पहले तत्कालीन एसडीओपी अटेर इंद्रवीर सिंह भदौरिया का रेत के कारोबार में संलिप्तता का वीडियो वायरल किया था जो कि लगभग सभी चैनलों ने प्रमुखता से दिखाया था| इसके अलावा भी कई अन्य रेत कारोबारियों से उनका छत्तीस का आंकड़ा रहा करता था | आज सुबह एक सामाजिक कार्यक्रम में भाग लेने के लिए जब देखो तो वाली से गुजर रहे थे तो ठीक कोतवाली के सामने ट्रक ने उन्हें कुचल दिया|

पुलिस ने अभी इस मामले में प्रकरण दर्ज कर लिया है लेकिन 302 का मुकदमा अभी तक दर्ज नहीं हुआ है और इस पूरे मामले में पुलिस अधीक्षक प्रशांत खरे कुछ भी कहने से अभी कतरा रहे हैं | संदीप शर्मा के द्वारा इस बात की शिकायत कोतवाली से लेकर डीजीपी तक की गई थी कि उनकी जान को खतरा है और उन्हें किसी झूठे संडयंत्र में फंसाया जा सकता है या फिर उनकी हत्या करवाई जा सकती है। मामले की जांच के लिए   एसपी प्रशांत खरे ने एसआईटी गठित की है। डीएसपी राकेश छारी, टीआई मेहगांव नरेंद्र त्रिपाठी, टीआई कोतवाली शैलेन्द्र कुशवाह, एसआई आशुतोष शर्मा, एएसआई सत्यवीर सिंह और साइबर सेल एसआईटी में शामिल हैं। एसआईटी जांच कर एसपी रिपोर्ट देगी।

Dakhal News 27 March 2018

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 2444
  • Last 7 days : 15894
  • Last 30 days : 60979
All Rights Reserved © 2018 Dakhal News.