विशेष

भारतीय सेना ने सीमा पार जाकर मारे आतंकी  भारतीय सेना ने बुधवार देर रात सर्जिकल स्ट्राइक करते हुए पाकिस्‍तानी सीमा में घुसकर कई आतंकी ठिकानों को ध्‍वस्‍त कर दिया। इसके बाद पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने इस हमले की निंदा की है। हमले की खबर सार्वजनिक होने के बाद अब आने वाले 48 घंटे महत्‍वपूर्ण माने जा रहे हैं और इसके चलते गृह मंत्री ने पंजाब में बॉर्डर का इलाका खाली करने के निर्देश जारी कर दिए हैं। गृहमंत्री ने आदेश दिया है कि पंजाब में सीमा का 10 किमी का एरिया खाली करवा लिया जाए। विभिन्न मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, भारतीय सेना के स्पेशल कमांडोज की एक टीम ने एलओसी पार कर लगभग 500 मीटर से 2 किलोमीटर तक घुसकर आतंकी कैम्पों को तबाह कर दिया। मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि इस स्ट्राइक में 5 आतंकी कैम्प नष्ट किए गए हैं और 38 आतंकी मार गिराए गए हैं। इस बीच पाक आईएसपीआर प्रमुख आसिम बाजवा ने एक टीवी चैनल से बातचीत में कहा कि भारत की ऐसी किसी भी तरह की कार्रवाई का पाकिस्तान द्वारा मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। इससे पहले, भारतीय सेना के एक्शन की जानकारी देते हुए रक्षा मंत्रालय और विदेश मंत्रालय की प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में डीजीएमओ रणबीर सिंह ने बताया कि बुधवार देर रात भारतीय सेना ने सर्जिकल स्‍ट्राइक करते हुए हमले के लिए तैयार आतंकियों को मार गिराया है।  उन्‍होंने कहा कि इस साल सीमा पर 20 घुसपैठ की कोशिश भारतीय सेना ने नाकाम की हैं। इस दौरान हमने जीपीएस सहित तमाम चीजें बरामद कीं। हमने पाकिस्‍तान के उच्‍च स्‍तर तक इसके सबूत दिए और इस मुद्दे को हमने पाकिस्‍तान के सामने उठाया। हमने उन्‍हें इन आतंकियों को काउंसलर एक्‍सेस देने का भी ऑफर दिया। लगातार उन्‍हें आगाह करने के बाद भी उन्‍होंने आतंकियों को रोकने के लिए कोई कदम नहीं उठाया है।इसके बाद बुधवार रात हमें विश्वस्त और महत्वपूर्ण सूचना मिली थी कि कुछ आतंकी पाक सीमा में बने लॉन्च पैड पर मौजूद थे और घुसपैठ के लिए तैयार थे। सूचना थी कि वो भारत के महत्‍वपूर्ण स्‍थानों पर हमले कर सकते हैं। इसके बाद हमारी सेना ने टारगेटेड जगहों पर सर्जिकल ऑपरेशन किया ताकि आतंकी अपने मंसूबों में कामयाब ना हो सकें। इस आतंक विरोधी अभियान में आतंकी और उनकी मदद करने वालों को नुकसान पहुंचा और कई कैम्‍प ध्‍वस्‍त हुए हैं। भारत ने इस सर्जिकल ऑपरेशन को खत्‍म कर दिया है और इसे आगे जारी रखने का कोई इरादा नहीं है। हमने पाक डीजीएमओ को इस सर्जिकल स्‍ट्राइक की सूचना दे दी है। यह भारत की सोच है कि इलाके में शांति रहे लेकिन हम आतंक‍ियों को घुसपैठ करने नहीं दे सकते। हम किसी भी तरह से आतंकियों को हमारे देश और देश के लोगों को नुकसान नहीं करने दे सकते। हमले के बाद पाकिस्‍तान के इंटर सर्विस पब्लिक रिलेशन डिपार्टमेंट द्वारा दी गई सूचना के अनुसार भारत ने यह हमला भिंबर, हॉटस्प्रिंग, केल और लीपा सेक्‍टर में किया है। हमले के बाद जहां पाक ने अपने दो जवानों के मारे जाने का दावा किया है वहीं पाकिस्‍तानी पीएम नवाज शरीफ ने इस हमले की निंदा करते हुए कहा है कि हम हमले की निंदा करते हैं। हमारी शांति की कोशिशों को हमारी कमजोरी ना समझा जाए। हम अपने देश की रक्षा के लिए तैयार हैं। इस बीच पाकिस्‍तान ने दावा किया है कि भारतीय सैनिको ने उसके दो सैनिकों को मार गिराया है। पाकिस्‍तानी मीडिया ने सेना के हवाले से खबर दी है कि बुधवार दे रात 2 बजे से शुरु हुई फायरिंग के सुबह 8 बजे तक चली और इस फायरिंग में उसके दो जवान मारे गए हैं। भारतीय सेना द्वारा की गई इस बड़ी सर्जिकल स्‍ट्राइक की जानकारी सेना ने राष्‍ट्रपति, उपराष्‍ट्रपति, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, जम्‍मू-कश्‍मीर के राज्‍यपाल और मुख्‍यमंत्री महबूबा मुफ्ती को दे दी गई है।  

Dakhal News

Dakhal News 29 September 2016

  मध्यप्रदेश भाजपा में  घमासान मध्य प्रदेश भाजपा कार्यकारणी बैठक से एक दिन पहले ही भाजपा नेता राजेश भदौरिया ने पार्टी, संगठन और सरकार के काम काज पर गंभीर सवाल खड़े कर दिए । उन्होंने व्यापम सहित कई मुद्दों पर सवाल उठाते हुए पार्टी को कठघरे में खड़ा कर दिया तो बीजेपी ने उन के खिलाफ एक्शन ले लिया। यह वही बात हुई कि अगर आईना चेहरे पर धूल बताये तो धूल पोंछने के बजाये आईना ही तोड़ दो।  बीजेपी सांस्कृतिक प्रकोष्ठ के प्रेदेश सयोंजक राजेश भदौरिया ने खुद को हटाये जाने से पहले  पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि यह अत्यंत आश्चर्यजनक और खेद पूर्ण है की भारतीय जनता पार्टी की सरकार उपरोक्त व्यापम भ्र्ष्टाचार की नैतिक जिम्मेवारी लेना तो दूर बल्कि बड़ी ही शर्मिंदगी से ऐसा दिखावा कर रही है जैसे कुछ हुआ ही नहीं हो, और प्रदेश की जनता की गाढ़ी कमाई का पैसा पार्टी के भव्य आयोजनों पर पानी की तरह बहा रही है ताकि जनता का ध्यान भ्र्ष्टाचार से हट जाए । भदौरिया ने आगे कहा कि भाजपा श्यामाप्रसाद मुखर्जी के सपनो का रास्ता छोड़ भ्र्ष्टाचार के रास्ते पर चल पड़ी है । आगे आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि कुछ अधिकारी और नेता पार्टी कार्यालय में बैठकर पैसों का लेनदेन और दलाली करते हैं । इनकम टैक्स अधिकारी पूनम रॉय के पति पर आरोप लगाते हुए कहा की वह पार्टी कार्यालय में बैठकर दलाली करते हैं । उन्होंने आगे बताया कि इस मसले को लेकर लगातार 3 कार्यकारणी मीटिंग में भ्र्ष्टाचार की बात उठाई लेकिन कार्यकारणी मीटिंग में उनकी बात सुनी नहीं गई । राजेश ने आगे बताया कि इस मामले को लेकर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नन्दकुमार सिंह चौहान को भी पत्र लिखा तथा पत्र के द्वारा राजेश ने मांग की व्यापम में हुए भ्र्ष्टाचार के कारण लाखों छात्रों और उनके परिजनों को त्रासदी से गुजरना पड़ा है इसके लिए भाजपा प्रदेश की जनता से माफ़ी मांगे तथा आगामी विधान सभा चुनाव में मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार दलित वर्ग से हो इसकी घोषणा करें ।

Dakhal News

Dakhal News 28 September 2016

राजनीति

 उड़ी आतंकी हमले का करारा जवाब देते हुए भारतीय सेना ने सीमा के पार हमला किया है। सीमा पार आतंकियों के कैंपों को ध्वस्त करने पर देश में उत्साहजनक प्रतिक्रिया हुई है। पढ़ें, सेना की इस कार्रवाई पर किसने क्या कहा...   केंद्रीय मंत्रा वेंकैया नायडू ने कहा, 'कम से कम अब पाकिस्तान भारत के खिलाफ आतंकवाद फैलाना बंद करेगा। देश पीएम मोदी और सेना के सुरक्षित हाथों में है।' केंद्रीय राज्यमंत्री राज्यवर्द्धन सिंह राठौर ने कहा, 'हम अपनी रक्षा के लिए वो सब करेंगे जो कर सकते हैं। अपने बचाव के लिए हमला भी किया जा सकता है।' नेशनल कॉन्फ्रेंस के मुस्तफा कमाल ने कहा, 'हमारी सरकार को जम्मू कश्मीर को शांति और दोस्ताना संबंधों का पुल बनाने चाहिए लेकिन हमारी सरकार दूसरे रास्ते पर जा रही है। अगर आप सीमा पार कर रहे हैं इसका मतलब आप युद्ध की घोषणा कर रहे हैं।' कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा, 'देश की सुरक्षा के लिए कांग्रेस पार्टी सरकार के साथ है, हमें उम्मीद है कि पाकिस्तान अब सीमापार से भारत के खिलाफ आतंकी गतिविधियों को रोकने की जिम्मेदारी समझेगा।' गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने कहा, 'हम इस कदम का स्वागत करते हैं, हमें उम्मीद है कि पाकिस्तान इससे सीख लेगा और अपनी हरकतों से बाज आएगा।' यूपी कांग्रेस चीफ राजबब्बर ने कहा, 'अगर सेना ने यह फैसला लिया है तो पूरा देश एकजुट होकर समर्थन करेगा।' रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा, 'मैं भारतीय सेना को इस ऑपरेशन के लिए बधाई देता हूं।' बीजेपी सांसद शहनवाज हुसैन ने कहा, 'यह आतंकवादियों के लिए एक सबक है, हमें आत्मरक्षा का पूरा अधिकार है।' बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा, 'मैं भारत के पीएम मोदी, रक्षा मंत्री और भारतीय सेना को कल रात हुए सर्जिकल स्ट्राइक के लिए बहुत-बहुत बधाई देता हूं। मैं सेना की वीरता, देशभक्ति और हौसले को सलाम करता हूं। ' कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, 'हमें अपनी सेना को सैल्यूट करते हैं, भारतीय सेना के आतंकी कैंपों पर की गई कार्रवाई का हम दिल से समर्थन करते हैं।' पूर्व रक्षा मंत्री एके एंटनी ने कहा, 'हम सरकार और देश की सुरक्षा के लिए इसके साहसिक प्रयासों का समर्थन करते हैं।' गायिका लता मंगेशकर ने कहा, 'मुझे गर्व है हमारे वीर जवानों पर,हमारे प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री जी पर, जय हिंद-जय भारत।' बीजेपी नेता राम माधव ने कहा, 'अब भारत पाकिस्तान की ब्लैकमेलिंग से नहीं डरेगा।

Dakhal News

Dakhal News 30 September 2016

भारत की पाकिस्तान के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर जहां भारत में जहां खुशी का माहौल है वहीं पाकिस्तान में इसको लेकर फूट की खबरें आ रही हैं। पाकिस्तान सेना इसे सर्जिकल स्ट्राइक मानने से इंकार कर दिया है। पाकिस्तान के रक्षामंत्री ख्वाजा आसिफ  ने कहा है कि भारतीय सेना की इस कार्रवाई में पाकिस्तानी सेना के दो जवान मारे गए हैं और नौ जवान घायल हुए हैं। वहीं इस सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने लाइन ऑफ कंट्रोल पर भारतीय सेना के हमले की निंदा की है और साथ ही शहीद जवानों की श्रद्धांजलि दी है। इसके बाद नवाज शरीफ ने कहा है, ‘देश की सुरक्षा और संप्रभुता को नुकसान पहुंचाने के शैतानी मंसूबों का मुंहतोड़ जवाब देंगे।’ नवाज शरीफ ने कहा है ‘हमारी अमन की ख्वाहिश को कमरोजी न समझा जाए। हमारी फौज सरहद की सुरक्षा पूरी ताकत रखता है। भारतीय फौज का मुकाबला करने और वतन की सुरक्षा करने के लिए तैयार है।’ शरीफ ने एक उच्चस्तरीय बैठक में भाग लेने के बाद ये भी कहा कि ‘दुनिया इस बात की गवाह है कि पाकिस्तान ने विश्व शांति के लिए जबर्दस्त कुर्बानी दी है और बहुत उकसाने के बावजूद पाकिस्तान ने बेमिसाल और अभूतपूर्व संयम बरता है।’ इस बैठक में ‘भारतीय क्षेत्र वाले कश्मीर में कथित तौर पर मानवाधिकारों के उल्लंघन पर गहरी चिंता जताई गई और भारतीय सुरक्षा बलों द्वारा शक्ति के बर्बर प्रयोग की कड़ी निंदा की गई।’ उन्होंने कहा कि पाकिस्तान शांतिपूर्ण दक्षिण एशिया के लिए संघर्ष जारी रखेगा। शरीफ ने कहा कि पाकिस्तान कश्मीरियों को नैतिक और कूटनीतिक समर्थन देना तब तक जारी रखेगा जब तक कश्मीर की जनता की आकांक्षाओं के अनुसार कश्मीर मुद्दे का समाधान नहीं हो जाता।

Dakhal News

Dakhal News 29 September 2016

मीडिया

  आज तक अपनी ताकत को वापस बना रहा है और दर्शकों की कसौटी पर खरा उतर रहा है। 38 वें सप्ताह में उसने अपनी स्थिति में सुधार किया है और टीआर पी में नंबर वन बना हुआ है। इण्डिया टीवी दूसरे नंबर पर बना हुआ है। झटके खा रहा एबीपी अपने में कोई सुधार नहीं ला पाया है।   नेशनल न्यूज़  चैनल trp Weekly Relative Share: Source: BARC, HSM, TG:CS15+,TB:0600Hrs to 2400Hrs, Wk 38 Aaj Tak 16.7 up 0.7  India TV 14.3 dn 0.6  India News 13.6 dn 1.1  ABP News 11.7 up 0.1  Zee News 10.8 up 0.3  News 24 10.7 up 0.6  News Nation 10.0 dn 0.1  IBN 7 5.3 up 0.1  NDTV India 2.6 same   Tez 2.4 dn 0.2  DD News 2.1 up 0.1   TG: CSAB Male 22+ Aaj Tak 16.2 up 1.2  India TV 15.5 dn 0.7  ABP News 11.7 dn 0.2  Zee News 11.3 dn 0.7  India News 11.2 dn 0.5  News 24 10.3 up 0.5  News Nation 10.3 up 0.2  IBN 7 6.0 up 0.2  NDTV India 3.4 up 0.1  Tez 2.3 dn 0.3  DD News 2.0 up 0.1

Dakhal News

Dakhal News 29 September 2016

जनसंपर्क मंत्री डॉ. मिश्रा ने किया दुर्लभ पत्र-पत्रिकाओं का अवलोकन  जनसंपर्क, जल संसाधन तथा संसदीय कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने  कोलार रोड पर माधवराव सप्रे समाचार पत्र संग्रहालय पहुँचकर संग्रहीत पुराने समाचार-पत्र, पत्रिकाओं और अन्य महत्वपूर्ण साहित्य सामग्री और दस्तावेज का अवलोकन किया। मंत्री डॉ. मिश्रा ने कहा कि यह संग्रहालय एक विशिष्ट धरोहर की रक्षा और उससे नई पीढ़ी को अवगत करवाने का महत्वपूर्ण काम कर रहा है। यह संग्रहालय ज्ञान का अदभुत सागर और अनूठा केन्द्र है। अन्य संस्थाओं के लिए भी इस केन्द्र का काम अनुकरणीय है।   जनसंपर्क मंत्री डॉ. मिश्रा को संग्रहालय के संबंध में जानकारी देते हुए  विजय दत्त श्रीधर ने बताया कि 1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम से लेकर 1947 के स्वतंत्रता संग्राम तक समाचार-पत्रों द्वारा देश की आज़ादी के लिए जनता में जागृति लाने संबंध सामग्री का भी संकलन किया गया है। इसके अलावा प्रमुख पत्र-पत्रिकाओं की दुर्लभ प्रतियाँ, अनेक लेखकों की मूल पांडुलिपियाँ भी संग्रहालय में सहेजी गई हैं। अनेक पुराने गजट, जिलों के गजेटियर और ग्रंथ इस संग्रहालय में व्यवस्थित रखे गए हैं। वर्ष 1984 में संग्रहालय ने आकार लेना प्रारंभ किया था। इस समय यह देश में अपनी तरह का अनोखा संग्रहालय बन चुका हैं। लाखों लोग संग्रहालय का अवलोकन कर चुके हैं। विद्यार्थियों और शोधार्थियों के लिए यह संग्रहालय इसलिए महत्व रखता है क्योंकि एक स्थान पर शोध सामग्री उपलब्ध हो जाती है। अनेक साहित्य प्रेमी और पत्रकार समय-समय पर संग्रहालय आकर वांछित सामग्री का अवलोकन भी करते हैं। संग्रहालय द्वारा पत्रकारिता से संबंधित अनेक प्रकाशन भी किए गए हैं। मंत्री डॉ. मिश्रा ने श्री श्रीधर को इस संग्रहालय के संचालन और प्रबंधन के लिए बधाई दी। मंत्री डॉ. मिश्रा ने संग्रहालय के विभिन्न खण्ड का अवलोकन भी किया।    

Dakhal News

Dakhal News 28 September 2016

समाज

मध्यप्रदेश की विकास गाथा ने ब्रिटेन के निवेशकों को गहरे से प्रभावित किया। मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने अपनी लंदन यात्रा के दूसरे दिन  मध्यप्रदेश में निवेश संभावनाओं पर आयोजित बिजनेस सेमीनार को संबोधित किया। इसका आयोजन भारतीय उद्योग परिसंघ और यूके इंडिया बिजनेस काउंसिल द्वारा किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश ने पिछले एक दशक में विकास का अदभुत दौर देखा है। किसान हितैषी नीतियों के फलस्वरूप खेती के क्षेत्र में अभूतपूर्व प्रगति हुई है।  सिंचाई के लिये भरपूर पानी और बिजली उपलब्ध है। आज मध्यप्रदेश विदयुत के मामले में पूरी तरह से आत्म-निर्भर प्रदेश है। सरप्लस होने के कारण बिजली सस्ती है। अधोसंरचनात्मक सुविधाओं में तेजी से विस्तार हुआ है। श्री चौहान ने बताया कि कैसे नदियों को जोडने का असंभव काम मध्यप्रदेश में रेकार्ड समय में पूरा हुआ, जिससे हजारों किसानों को सिंचाई और ग्रामीण जनसंख्या को पीने का पानी मिल रहा है। उन्होंने निवेशकों को मध्यप्रदेश की विकास गाथा से परिचित करवाते हुए बताया कि कैसे मध्यप्रदेश का तेजी से आर्थिक विकास हुआ है। मध्यप्रदेश की विशेषताओं को रेखांकित करते हुए  चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश शांति का टापू है। यहाँ किसी भी प्रकार की कानून-व्यवस्था संबंधी कोई समस्या नहीं है। आतंकवाद, नक्सलवाद समाप्त हो गये हैं। मध्यप्रदेश के शांतिप्रिय नागरिक सबका स्वागत और सम्मान करते हैं। सबको अपना मानते हैं। निवेशकों की सहूलियत के लिये प्रभावी सिंगल विंडो सिस्टम संचालित है ताकि निवेश संबंधी औपचारिकताओं के लिये उन्हें भटकना नहीं पड़े। उन्होंने इंदौर में होने वाली ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में भाग लेने के लिये निवेशकों को आमंत्रित किया। उद्योग मंत्री  राजेन्द्र शुक्ला ने भी सेमीनार को संबोधित किया। प्रमुख सचिव उदयोग  मोहम्मद सुलेमान ने मध्यप्रदेश में विभिन्न क्षेत्रों में व्यापार और निवेश की संभावनाओं की चर्चा की। यूके में भारत के उच्चायुक्त  नवतेज सारना, लंदन के डिप्टी मेयर  राजेश अग्रवाल, यूके इंडिया बिजनेस काउंसिल के  केविन मैकाले उपस्थित थे।मुख्यमंत्री श्री चौहान सेक्रेटरी आफ स्टेट अंतर्राष्ट्रीय विकास विभाग यूके की  प्रीति पटेल के आमंत्रण पर स्मार्ट सिटी प्रबंधन रणनीति का अध्ययन करने गये थे। इस दौरान उन्होंने स्मार्ट सिटी परियोजना और कौशल उन्नयन के क्षेत्र में निवेश की इच्छुक कंपनियों से भी भेंट की।

Dakhal News

Dakhal News 29 September 2016

ग्वालियर में भाजपा की दो दिवसीय प्रदेश कार्यसमिति बैठक  अमिताभ उपाध्याय  ग्वालियर में प्रदेश कार्यसमिति की शुरुआत से पहले ही सरकार ने बालाघाट में संघ प्रचारक पिटाईकांड के आरोपी एएसपी को सस्पेंड करके सख्त संदेश दिया है कि ब्यूरोक्रेसी को जनप्रतिनिधियों पर हावी नहीं होने दिया जाएगा।इसके बाद प्रदेश कार्यसमिति की बैठक मिशन 2018 के एजेंडे के हिसाब से चली।बालाघाट में हुई संघ प्रचारक सुरेश यादव की पिटाई का मामला गर्मा गया। कार्यसमिति में जमा हुए पार्टी के मंत्रियों और वरिष्ठ नेताओं ने मीडिया से बातचीत में एक स्वर से इस घटना की निंदा की। पार्टी नेताओं के सुरों को देखते हुए गृह मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने बैठक के पहले एडीशनल एसपी को सस्पेंड करने का ऐलान करते हुए कहा कि इस मामले में सरकार गंभीर है। आज प्रदेश भाजपा की कार्यसमिति की बैठक शुरू होने के पहले ही संघ प्रचारक की पिटाई को लेकर भाजपा नेताओं ने इसे बेहद निंदनीय बताया। मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने ग्वालियर में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि इस मामले में किसी दोषी को छोड़ा नहीं जाएगा। आठ पुलिसकर्मियों के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है। उन्हें गिरफ्तार कर कानूनी कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि कुछ लोगों के गैरजिम्मेदाराना कृत्य को लेकर पूरी नौकरशाही पर सवाल नहीं खड़े किए जा सकते।   बीजेपी  के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और मध्यप्रदेश प्रभारी डॉ. विनय सहस्त्रबुद्धे ने पार्टी कार्यकर्ताओं का आहवान किया है कि पं. दीनदयाल उपाध्याय की जन्मशताब्दी पर अपने व्यक्तिगत और सामाजिक जीवन में सेवा का संकल्प धारण करे, पीड़ित, शोषित, दलित और वास्तविक जरूरतमंदो के लिए सेवा प्रकल्पों में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें। पार्टी प्रदेश कार्यसमिति के शुभारंभ सत्र को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित करते हुये उन्होने पं. दीनदयाल उपाध्याय के व्यक्तित्व, कृतित्व और उनके विचारों की सामयिक उपादेयता को प्रभावी तरीके से रेखांकित किया।  दो दिनी कार्यसमिति का शुभारंभ ग्वालियर के  प्रगति विद्या पीठ में हुआ। इस अवसर पर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष  प्रभात झा, पूर्व मुख्यमंत्री  कैलाश जोशी, राष्ट्रीय महासचिवव  कैलाश विजयवर्गीय, केन्द्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायतराज मंत्री  नरेन्द्रसिंह तोमर, प्रदेश अध्यक्ष व सांसद  नंदकुमारसिंह चौहान, महामंत्री संगठन  सुहास भगत, राष्ट्रीय सचिव  ज्योति धुर्वे मंचासीन थे।   बैठक में  राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. विनय सहस्त्रबुद्धे ने प्रदेश भर से आये प्रतिनिधियों के समक्ष पं. दीनदयाल उपाध्याय के व्यक्तित्व और उनके द्वारा प्रतिपादित एकात्म मानव दर्शन को बहुत ही सरल और सुबोध भाषा में प्रस्तुत किया। उन्होने कहा कि पं. दीनदयाल उपाध्याय ने सार्वजनिक जीवन में मूल्य विवेक, आचार संहिता, वैचारिक प्रतिबद्धता और नीति निर्माण को जिस प्रखरता के साथ प्रतिष्ठित किया है वह अद्वितीय है। डॉ. सहस्त्रबुद्धे ने विस्तार से बताया कि कैसे इन मूल्यों के साथ उन्होने भारतीय जनसंघ को देश की संसदीय राजनीति में स्थापित किया।  सहस्त्रबुद्धे ने प्रतिनिधियों के समक्ष साफगोई से कहा कि मौजूदा दौर में जब बाहरी आवरण सामाजिक रूप में प्रतिष्ठित होता है, तब हम अपना मूलमंत्र भूल जाते है और तंत्र हम पर हावी होने लगता है। इसलिये भाजपा में कार्यरत प्रत्येक कार्यकर्ताओं को पंडित जी के बताये सहजता, सादगी और सेवा के मूलमंत्र को नहीं भूलना चाहिये। उन्होने इसके लिये व्यक्तिगत अध्ययन पर जोर देते हुये कहा कि आज अध्ययनशीलता सार्वजनिक जीवन से कम हो रही है। इसलिये कथनी और करनी में फर्क महसूस किया जाता है। उन्होने आव्हान किया कि सभी कार्यकर्ता वैचारिक रूप से मजबूत बनने का प्रयास करें। ताकि सामाजिक रूप से वें देश के लिये उपयोगी साबित हो।  इससे पूर्व  नंदकुमारसिंह चौहान ने नवीन कार्यसमिति की बैठक में पधारे प्रतिनिधियों का स्वागत करते हुये कहा कि जिन कार्यकर्ताओं को पार्टी ने कार्यसमिति में स्थान दिया है उन्हें पार्टी के विश्वास पर खरा उतरने की आवश्यकता है। श्री चैहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में पार्टी संगठन दीनदयाल जन्मशती वर्ष लोककल्याण वर्ष के रूप में मनायेगा। उन्होने कहा कि मध्यप्रदेश में सत्ता और संगठन के आपसी समन्वय से पूरे देश में लोककल्याण वर्ष के रूप में बेहतर काम करके उदाहरण प्रस्तुत करेंगे। श्री चौहान ने कहा कि दीनदयाल जन्मशती वर्ष के दौरान ही मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के कार्यकाल को 11 वर्ष 29 नवम्बर को पूर्ण होने जा रहे है। 29 नवबर से ही सेवा पखवाडा पूरे मध्यप्रदेश में ग्राम स्तर तक आयोजित होगा। भारतीय जनता पार्टी प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में आज पहले दिन राजनीतिक प्रस्ताव पेश किया गया। 19 बिंदुओं वाले प्रस्ताव पर समग्रता से चर्चा की गयी। राजनैतिक प्रस्ताव प्रदेश महामंत्री  अजयप्रताप सिंह ने प्रस्तुत किया। प्रस्ताव का समर्थन प्रदेश उपाध्यक्ष अरविन्द भदौरिया, विधायक  प्रदीप लारिया ने किया। प्रस्ताव पर चर्चा कर सर्वसम्मति से पारित कर दिया गया। राजनीतिक प्रस्ताव में मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा विकास और जनकल्याण के मोर्चे पर जारी कार्यों की सराहना भी की गई है। इससे पहले भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह ने साफ किया है कि सरकार में 75 से ज्यादा उम्र वालों को आराम देने का पार्टी ने कोई नियम नहीं बनाया है। यह पार्टी और मुख्यमंत्री का विशेषाधिकार है कि वे किसे रखें, किसे नहीं।  भाजपा में गुटबाजी को सिरे से नकारते हुए वे बोले कोई गुटबाजी नहीं है, सब एक हैं। कैलाश विजयवर्गीय, सरताज सिंह व बाबूलाल गौर को प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के लिए बुलाया है। पार्टी से बाहर गए लोगों की वापसी और बाहर से आए लोगों को बड़े पदों से नवाजे जाने पर उनका कहना था जो उनसे जुड़ेगा उसे अवसर मिलेगा।  

Dakhal News

Dakhal News 28 September 2016

पेज 3

बॉलीवुड अभिनेत्री आलिया भट्ट ने फिल्म‘गोलमाल 4’में काम नहीं करने का फैसला किया है। बॉलीवुड फिल्मकार रोहित शेट्टी अपनी सुपरहिट फिल्म गोलमाल का चौथा संस्करण बनाने जा रहे हैं। फिल्म में अजय देवगन की मुख्य भूमिका होगी। पहले इस फिल्म के लिये अजय के अपोजिट करीना कपूर का चयन किया था लेकिन उनके गर्भवती होने के बाद रोहित अब फिल्म के लिये नयी अभिनेत्री की तलाश कर रहे हैं। चर्चा थी कि ‘गोलमाल 4’ के लिए आलिया का चयन किया जा सकता है लेकिन बात बनती नहीं दिख रही है।  कहा जा रहा था कि करीना की जगह पर आलिया ही रोहित की पहली पसंद थी लेकिन अचानक से आलिया को क्या हुआ ? उन्होंने फिल्म से अपने हाथ पीछे क्यों खींच लिए। चर्चा है कि करण जौहर और अजय के बीच बढ़ते तनाव को देखते हुए आलिया ने यह कदम उठाया है। आलिया, करण को तो नाखुश नहीं करना चाहेंगी। आखिर करण उन्हें बॉलीवुड में लाये था। हालांकि आलिया ने इसके पीछे कुछ और वजह बताई है। आलिया का कहना है कि वह अभी ‘बद्रीनाथ की दुल्हनिया ’के लिए शूट कर रही हैं और उनके पास ‘गोलमाल 4’ के लिए बिल्कुल भी समय नहीं है। 

Dakhal News

Dakhal News 29 September 2016

ना मैं सपना हूँ ना कोई राज़ हूँ  एक दर्द भरी आवाज़ हूँ......! सुरों का ऐसा मार्दव सरस्वती की अनुकम्पा से ही प्राप्त होता है। फिर साधना और तपस्या उसे अलंकृत करती है। आज भगवान की उस कारगरी का जन्मदिन है जो अपनी साधना को निरंतर निखारते हुए संगीत के रसज्ञों को आज भी सरस करती है।  लता जी का जन्म 28 सितंबर 1929 को इंदौर में हुआ है। मात्र तेरह साल की अवस्था से ही लता जी का संगीत कैरियर शुरू हो गया था। लता जी ने अपने समय से लगाय तीन पीढ़ी तक के गायकों के साथ गीत रिकॉर्ड करवाई हैं। जिनमें मन्ना, हेमंत, मुकेश, किशोर, रफ़ी, , तलत, महेंद्र, भूपिंदर, भुपेंन और जगजीत, मेहदी हसन, यसुदास, हरिहरण, सुरेश वाडेकर, उदित नारायण, कुमार सानू और सोनू निगम प्रमुख हैं। इसके अलावा उन्होंने अनिल विश्वास, शंकर जयकिशन, हेमंत कुमार, नौशाद, सचिन दा, पंचम दा, ओपी नय्यर,मदन मोहन, सलिल चौधरी, कल्याण जी आनंद जी, ख़य्याम, लक्ष्मीकांत प्यारेलाल, राजेश रौशन, बप्पी लहरी और रविन्द्र जैन जैसे संगीतकारों के साथ काम किया।  लता जी ने 6 दशक तक अपने सुरीली आवाज़ से श्रोताओं के भावों को रंग दिया हैं। उनकी आवाज़ ने प्रेम में उमंग, ख़ुशी में अल्हड़ता और दुःख में निराशा को संबल दिया है। 60 का दशक लता जी के कैरियर का सबसे स्वर्णिम समय रहा। इस दौरान मदन मोहन के संगीत पर उन्होंने सैकड़ों यादगार गीत दिए। लता जी से सम्बंधित कुछ  बातें जो हमेशा चर्चा में रहता है उनमें 'उनका शादी न करना, आज भी वह स्टेज पर या रिकॉर्डिंग रूम में चप्पल पहनकर गीत नहीं गाना। आज भी आइसक्रीम और ठंडे पानी नहीं पीना, लाल मिर्च बहुत खाना और इस उम्र में भी गीत गाना।' लता जी को पार्श्वगायन का पहला अवसर मराठी फिल्म 'किती हसाल' से मिला। महल फिल्म के गीत 'आयेगा आने वाला' से बतौर स्थापित पार्श्वगायिक माना जाने लगा। लता जी ने अब-तक 30000 हज़ार से ज्यादा गीत रिकॉर्ड करवा चुकी हैं। उन्हें 4 बार सर्वश्रेष्ठ गायिका का फिल्म फेयर पुरस्कार मिला है। यह पुरस्कार उन्हें 'आजा रे परदेसी (मधुमती 1958), कहीं दीप जले कहीं दिल (बीस साल बाद 1962), तुम्हीं मेरे मंदिर तुम्ही मेरे पूजा (खानदान 1965) और आप मुझे अच्छे लगने लगे (जीने की राह 1969)'  के लिए मिला। इसके अलावा उन्हें सन् 1972, 1975 और 1990 में राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया। लता जी को सन् 2001 में भारतरत्न से भी समानित किया गया है। सुर-साम्राज्ञी लता जी को उनके गाये एक पसंदीदा गीत की दो पंक्तियों  'तेरा मेरा प्यार अमर फिर क्यो मुझको लगता है डर  मेरे जीवन-साथी बता क्यो दिल धड़के रह रह कर'

Dakhal News

Dakhal News 28 September 2016

दखल क्यों

    मध्यप्रदेश सरकार प्रदेश में वेदों की पढ़ाई के लिए जल्द ही वेद विद्यालयों की स्थापना करेगी। इसके लिए धार्मिक न्यास और धर्मस्व मंत्री के साथ हुई अफसरों की बैठक के बाद विद्यालय स्थापना के लिए जिलों के चयन की कार्रवाई करने के लिए कहा गया है ताकि मंत्रिपरिषद में प्रस्ताव लाया जाकर इसे स्वीकृति दिलाई जा सके।  धार्मिक न्यास और और धर्मस्व विभाग द्वारा संस्कृत विद्यालयों को बढ़ावा देने के साथ चारों वेद ऋग्वेद, यजुर्वेद, सामवेद और अथर्व वेद की पढ़ाई के लिए वेद विद्यालय खोलने का प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है। धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया इसको लेकर विभाग के अफसरों से बैठक कर चुकी हैं। सूत्रों के अनुसार सरकार चाहती है कि संस्कृत को बढ़ावा मिले और लोग वेदों में बताई गई खूबियों को अपने जीवन में उतारें। इसमें संस्कृत के माध्यम से ज्ञान, कर्म, उपासन और विज्ञान को लेकर बताई गई बातों का अध्ययन करें। इसके लिए वेद विद्यालय जरूरी है। सरकार तलाश रही स्थान वेद विद्यालय के लिए अभी तक जिले और स्थान का चयन नहीं हुआ है पर सूत्रों का कहना है कि मंत्री सिंधिया इसको लेकर गंभीर हैं। इसलिए उन्होंने बीते दिनों हुई मीटिंग में एक बार फिर इस एजेंडे पर अफसरों का ध्यान आकृष्ट किया। सरकार ने संस्कृत को बढ़ावा देने के लिए संस्कृत संस्थान पहले ही खोल रखा है और कई जिलों में संस्कृत बोर्ड के माध्यम से परीक्षाएं कराकर डिग्री दी जा रही है।

Dakhal News

Dakhal News 29 September 2016

  शिवसेना के मुखपत्र सामना में उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला हैं। मुसलमानों को लेकर कोझीकोड में दिए पीएम मोदी के भाषण पर उद्दव ने सवाल उठाते हुए पूछा कि आज अचानक मुसलमानों की क्या जरूरत आन पड़ी। क्या सरकार बदल गई, या फिर भी मुसलमानों की खुशामद का नया प्रयोग जारी है। सामना में मोदी द्वारा मुसलमानों को अपना बनाकर उन्हें मुख्य प्रवाह में लाना और वक्त की जरूरत बताने पर कटाक्ष किय़ा। उद्धव ठाकरे ने सामना में पूछा है कि क्या उन मुसलमानों को अपनी छाती से लगाकर अपना कहा जाए। जो इस्लामिक स्टेट के झंडे फहरा रहे है और बुरहान वानी के लिए शोक  मना रहे हैं । उद्धव के मुताबिक, मुसलमानों को साथ लेकर राजनिति करने वालों का एक नया बैंक बन गया है और इसके चलते राम मंदिर का कंगूरा उतरता हुआ दिखाई दे रहा है। मुसलमान इस देश का सर्वकालीन दुश्मन नहीं, लेकिन हिंदुओं को उनके कारण ही हिन्दुस्तान में सम्मान और अधिकार नहीं मिल रहा है।

Dakhal News

Dakhal News 28 September 2016
Video

Page Views

  • Last day : 2808
  • Last 7 days : 20309
  • Last 30 days : 163367
All Rights Reserved © 2016 Dakhal News.