विशेष

अहमदाबाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने  को वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट का उद्घाटन किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि भारत स्टार्टअप के मामले में दुनिया का सबसे बड़े ईकोसिस्टम है। भारत के साथ व्यापार करना श्रेष्ठ अवसर है क्योंकि हम दुनिया की टॉप 10 एफडीआई डेस्टिनेशंस में शामिल हैं। पीएम बोले कि दुनिया के बड़े आर्थिक संस्थानों विश्व बैंक और आईएमएफ ने भारत की अर्थव्यवस्था में भरोसा जताया है। हमारा ध्यान उन बाधाओं को दूर करने में है जो हमें हमारी सर्वोच्च क्षमता तक जाने से रोक रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार की औसत जीडीपी वृद्धि दर 7.3% रहीं है। जबकि वर्ष 1991 के बीच किसी भी सरकार की ऐसी वृद्धि नहीं हुई है। वहीं, महंगाई की औसत दर भी 4.6 फीसद है, जो 1991 के बाद किसी भी भारतीय सरकार के दौरान सबसे कम है। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने गुजरात के विकास में भागीदार होने को वाईब्रेंट गुजरात 2019 में आए देश व दुनिया के उद्यमियों का स्वागत करते हुए कहा कि गुजरात जैसे इन्वेस्टमेंट फ्रेंडली राज्य में निवेश के लिए विश्वास जताने के लिए धन्यवाद। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी के नए भारत के निर्माण के संकल्प के प्रति आभार जताया। रिलायंस समूह के अध्यक्ष मुकेश अंबानी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सन ऑफ गुजरात, प्राइड ऑफ गुजरात बताया। उन्होंने कहा गौतम अदाणी की तरह मुझे भी राज्य के सभी 9 वाईब्रेंट गुजरात निवेशक सम्मेलन में शामिल होने का सौभाग्य मिला है। अंबानी ने कहा कि मोदी विजनरी लीडर, उनके नेतृत्व में भारत तेजी से विकास करने वाली अर्थव्यवस्था बनी है। गुजरात रिलायंस की जन्मभूमि है, दुनिया में हमारे लिए भारत पहले और भारत में गुजरात पहले के संकल्प के साथ रिलायंस काम कर रहा है। बता दें कि इससे पहले पीएम मोदी ने उज्बेकिस्तान के राष्ट्रपति शावत मिर्ज़ियोयेव से मुलाकात की। बता दें कि, तीन दिनों तक चलने वाले निवेशकों का यह कार्यक्रम राजधानी गांधीनगर के महात्मा मंदिर में आयोजित हो रहा है। इसमें पांच देशों के राष्ट्राध्यक्ष और 30,000 राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे। कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले पांच देशों में उज्बेकिस्तान, रवांडा, डेनमार्क, चेक रिपब्लिक और माल्टा शामिल है। पीएम मोदी ने समित से इतर उज्बेकिस्तान के राष्ट्रपति शवकत मिर्जियोयेव के साथ गांधीनगर में द्वीपक्षीय वार्ता की। दोनों देशों के बीच दो एमओयू पर हस्ताक्षर हुए। इससे पहले पीएम ने माल्टा के प्रधानमंत्री जोसेफ मस्कट के साथ भी मुलाकात की थी। तीन दिनों के इस कार्यक्रम में वैश्विक फंड प्रमुखों के साथ राउंड-टेबल बातचीत होगी। बता दें कि, आज दूसरा दिन है। इससे पहले गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस कार्यक्रम का उद्घाटन किया था। आज वह दुनिया के विभिन्न नेता और हजारों प्रतिनिधियों की मौजूदगी में व्यापार बैठक का उद्घाटन करेंगे। इस मौके पर मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा कि, कार्यक्रम का समापन उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू की मौजूदगी में होगा।  

Dakhal News

Dakhal News 18 January 2019

  जनसम्पर्क, विधि एवं विधायी, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, विमानन, धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री श्री पी.सी. शर्मा ने कहा है कि प्रदेश सरकार बालिकाओं की सम्पूर्ण शिक्षा को नि:शुल्क करने के लिए रूप रेखा तैयार करने जा रही हैं, जिसको शीघ्र ही मूर्तरूप प्रदान किया जाएगा। श्री शर्मा ने बालिकाओं से कहा कि वे किसी भी स्थिति में आर्थिक तंगी की वजह से अपनी पढ़ाई न छोड़ें। आवश्यकता होने पर स्थानीय पार्षद, विधायक से या स्वयं उनसे सम्पर्क करें। हर संभव आवश्यक मदद की जाएगी। श्री शर्मा ने शासकीय नवीन उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, चूनाभट्टी के वार्षिकोत्सव समारोह में यह बात कही। जनसम्पर्क मंत्री श्री शर्मा ने मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा मॉडल का जिक्र करते हुए कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ रोजगार सृजनकर्ता है। आज की स्थिति में छिंदवाड़ा के नौजवान और नव युवतियां स्थानीय, प्रादेशिक, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कार्य कर रहे हैं। श्री कमल नाथ ने न केवल छिंदवाड़ा में अधोसरंचनात्मक विकास किया है, अपितु रोजगार सृजन के उपाय कर क्षेत्र के लोगों को रोजगार भी प्रदान किए हैं। अब पूरे प्रदेश में रोजगार सृजन के लिए विभिन्न उद्योग धंधें लगाए जाएंगे। साथ ही रोजगार प्रदान करने के अन्य उपाय भी किये जाएंगे। जनसम्पर्क मंत्री श्री शर्मा ने कहा कि स्कूली विद्यार्थियों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने के लिए समुचित उपाय किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जब भोपाल शहर स्मार्ट सिटी बन रहा है, तो स्कूल और उसकी कक्षाओं को भी स्मार्ट बनाया जाएगा। स्कूल का कोई भी कार्य रूकने नहीं देंगे। श्री शर्मा ने युवा संसद, कालिदास समारोह और मोगली उत्सव में प्रथम और द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया। समारोह की अध्यक्षता स्थानीय पार्षद श्रीमती सीमा प्रवीण सक्सेना ने की।  

Dakhal News

Dakhal News 18 January 2019

राजनीति

    इंदौर में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारतीय वायु सेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक का सबूत मांगा था। दिग्विजय को इस मामले में महबूबा मुफ्ती का साथ मिला है। मेहबूबा ने भी यही मांग दोहराई है। इस बीच दिग्विजय सिंह द्वारा पाकिस्तान में भारतीय वायु सेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक का सबूत मांगने पर बवाल खड़ा हो गया। भाजपा नेताओं ने इसका विरोध किया है । दिग्विजय सिंह ने कहा था कि हमें भी अमेरिका द्वारा ओसामा बिन लादेन के खिलाफ किए गए ऑपरेशन की तरह सबूत देना चाहिए। इस दौरान उन्होंने भारतीय पायलट को लौटाने पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की तारीफ भी की थी। इस बारे में दिग्विजय के बेटे और मध्यप्रदेश के मंत्री जयवर्धन सिंह ने पिता के बयान को सही बताया है। जयवर्धन ने कहा कि हम सेना के साथ खड़े हैं, पिता ने पायलट को लौटाने पर इमरान खान को धन्यवाद दिया है। उन्होंने यह भी कहा था कि पाकिस्तान हाफिज सईद और अजहर मसूद को भी भारत को सौप दे। इस बीच, पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में वायुसेना की स्ट्राइक और दुश्मन देश से सुरक्षित लौट आए वायुसेना के पायलट अभिनंदर वर्तमान को लेकर भी देश में राजनीति शुरू हो गई है। कांग्रेस के ही वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद को इस बात का फक्र है कि अभिनंदन यूपीए शासन में फाइटर पायलट बने। खुर्शीद ने अपने ट्वीट में लिखा, ''दुश्‍मन की आक्रामकता के सामने भारतीय प्रतिरोध के चेहरे विंग कमांडर अभिनंदन को बहुत-बहुत बधाई। संकट के समय उन्‍होंने शानदार संतुलन और आत्‍मविश्‍वास दिखाया। हमें इस बात का गर्व है कि वे 2004 में एयरफोर्स में शामिल हुए और संयुक्‍त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) के शासनकाल के दौरान एक मैच्‍योर फाइटर पायलट बने।'  

Dakhal News

Dakhal News 3 March 2019

भोपाल में मुख्यमंत्री कमल नाथ को एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक के मैनेजिंग डायरेक्टर और सी.ई.ओ.  संजय अग्रवाल ने मुख्यमंत्री सहायता कोष के लिए 10 लाख रूपये का चेक भेंट किया। मुख्यमंत्री श्री नाथ को श्री अग्रवाल ने बताया कि एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक ने पिछले 21 माह में 2 हजार युवाओं को रोजगार उपलब्ध करवाया है।

Dakhal News

Dakhal News 3 March 2019

मीडिया

मोबाइल और संचार की दुनिया में यह साल 5जी टेक्नोलॉजी के नाम रहने वाला है। हालांकि अभी 5जी तकनीक आने मे वक्त लगेगा, लेकिन न केवल मोबाइल डिवाइस बल्कि इसका पूरा इकोसिस्टम इस वर्ष 5जी में तब्दील हो जाएगा। यह साल विभिन्न 5जी उत्पादों के लांच का भी रहेगा जिसमें सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स पहला 5जी फोन लांच करके बाजी मार चुकी है। आने वाले समय में कई और कंपनियां भी 5जी हैंडसेट लाने की तैयारी में हैं। सैमसंग ने पिछले हफ्ते ही 5जी मोबाइल हैंडसेट एस-10 बाजार में उतारने का एलान किया है। हालांकि अभी 5जी मोबाइल सेवा की शुरुआत नहीं हुई है। लेकिन मोबाइल हैंडसेट व उपकरण बनाने वाली कंपनियों ने इसकी तैयारी लगभग पूरी कर ली है। मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस में तकरीबन सभी कंपनियों ने अपने 5जी उत्पादों का प्रदर्शन किया है। इन कंपनियों की घोषणाओं से स्पष्ट है कि इस वर्ष 5जी का पूरा इकोसिस्टम तैयार हो जाएगा। मोबाइल डिवाइस बनाने वाली कंपनियां भी साल 2020 की शुरुआत में ही अपने उत्पाद बाजार में उतारने को तैयार हैं। सैमसंग भी इनमें से एक है। मोबाइल चिप बनाने वाली कंपनी क्वालकॉम 5जी तकनीक पर आधारित स्नैपड्रैगन 855 मोबाइल चिप और स्नैपड्रैगन एक्स50 चिप बाजार में उतार चुकी है। सैमसंग ने अपने नवीनतम एस-10 5जी फोन में इनका इस्तेमाल किया है। क्वॉलकॉम 5जी डिवाइसेज के लिए एक और चिप जल्द बाजार में उतारेगी। क्वॉलकॉम के प्रेसिडेंट क्रिष्टियानो ने बताया कि इस चिप पर आधारित पहला मोबाइल फोन भी सैमसंग की तरफ से ही आएगा। दुनियाभर में 5जी तकनीक को विकसित होने से लेकर उस पर आधारित उत्पादों के बाजार में आने में मात्र 10 वर्ष का समय लगा है। साल 2009 में जब 4जी तकनीक लांच हुई थी, तब दुनियाभर में केवल चार ऑपरेटर और तीन उपकरण निर्माता कंपनियां थी। लेकिन आज 20 से अधिक ऑपरेटर 5जी टेक्नोलॉजी लांच की तैयारी पूरी कर चुके हैं और इतने ही ओईएम उपकरण और हैंडसेट बनाने के लिए तैयार हैं। भारत में रिलायंस जियो भी 5जी टेक्नोलॉजी के लांच के लिए पूरी तरह तैयार है। ब्रिटेन की टेलीकॉम दिग्गज वोडाफोन ने आरोप लगाया है कि पिछले दो वर्षों में भारत में टेलीकॉम सेक्टर के लिए नियामक संबंधी जितने भी फैसले आए हैं, वे रिलायंस जियो के पक्ष में और अन्य सभी कंपनियों के खिलाफ रहे हैं। वोडाफोन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) निक रीड ने यह भी कहा कि पिछले कुछ समय के दौरान भारत में कंपनी मुश्किल दौर से गुजरी है। लेकिन अब नेटवर्क में निवेश और संपत्तियों के मौद्रीकरण के माध्यम से वह भारतीय बाजार में टिकने के लिए बेहतर स्थिति में आ चुकी है। रीड ने यह भी कहा कि वर्तमान में भारतीय बाजार में टेलीकॉम सेवा की दरें सबसे कम और कारोबार के लिहाज से टिकाऊ नहीं हैं। उन्होंने कहा, 'सभी तीन टेलीकॉम कंपनियां नकदी की किल्लत से जूझ रही हैं। दुनियाभर में टेलीकॉम सेवाओं के दाम भारत में सबसे सस्ते हैं। वहां एक औसत ग्राहक इतनी कम दर में हर महीने 12 जीबी डाटा का इस्तेमाल कर रहा है, जो दुनियाभर में कहीं भी नजर नहीं आती हैं।' गौरतलब है कि कंपनी भारत में आदित्य बिड़ला ग्रुप से गठजोड़ के तहत वोडाफोन आइडिया लिमिटेड के तहत कारोबार का संचालन कर रही है।  

Dakhal News

Dakhal News 3 March 2019

 WhatsApp ने पिछले साल अपने यूजर्स के लिए कईं फीचर्स पेश किए थे। इसी कड़ी में ग्रुप कॉलिंग फीचर भी शामिल था जिसकी मदद से यूजर अपने ग्रुप में वॉइस और वीडियो कॉल कर सकता है। यह फीचर आने के बाद अब कंपनी ने इसमें बड़ा अपडेट किया है। इस अपडेट के आने के बाद अब ग्रुप कॉलिंग और भी आसान और मजेदार हो जाएगी। खबरों के अनुसार अब तक ग्रुप कॉलिंग के लिए इसमें यूजर्स को अलग-अलग लोगों को एड करना पड़ता था। अब WhatsApp एंड्रॉइड ऐप के लिए एक नया अपडेट जारी किया गया है। इसके तहत ग्रुप कॉल के लिए एक अलग से बटन उपलब्ध कराया गया है। इस फीचर के जरिए यूजर्स ग्रुप कॉल के लिए पार्टिसिपेंट्स को एक बार में ही एड कर पाएंगे। पहले यह फीचर केवल iOS यूजर्स के लिए ही उपलब्ध था। लेकिन अब यह Android यूजर्स के लिए भी रोलआउट कर दिया गया है। WhatsApp (v2.19.9) की जानकारी सबसे पहले WABetaInfo पर दी गई है। जहां पहले ग्रुप कॉल में यूजर्स को एक एक कर लोगों को एड करना होता था। वहीं, इस फीचर के जरिए एक बार में ही ग्रुप कॉल में लोगों को एड किया जा सकेगा। एक व्यक्ति को कॉल लगाने के बाद दूसरे व्यक्ति को कॉल लगाने के लिए ऊपर दायीं तरफ दिए गए आइकन पर क्लिक करना होता था। ऐसे ही चार लोगों को एड करने के लिए चार बार यह प्रक्रिया दोहरानी पड़ती थी। नया ग्रुप कॉल बटन मिलने के बाद ग्रुप वीडियो या वॉयस कॉल करना और आसान हो जाएगा। इसके लिए एक अलग से बटन दिया गया होगा। इस पर टैप करते ही स्लाइड आउट ट्रे खुल जाएगी। यहां आपके सभी कॉन्टेक्ट कार्ड मौजूद होंगे। यहा से आप जिसे भी ग्रुप वॉयस या वीडियो कॉल का हिस्सा बनाना चाहते हैं उनन्हें चुन सकते हैं। इस फीचर को इस्तेमाल करने के लिए आपको WhatsApp एंड्रॉइड का लेटेस्ट स्टेबल वर्जन डाउनलोड करना होगा। इसके लिए गूगल प्ले स्टोर या WhatsApp.com/Android पर जाएं। आपको बता दें कि इस नए अपडेट में GIF के बग्स को भी फिक्स कर दिया गया है।  

Dakhal News

Dakhal News 18 January 2019

समाज

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री जयवर्द्धन सिंह ने राजगढ़ जिले की नरसिंहगढ़ तहसील में जय किसान फसल ऋण माफी योजना में पात्र किसानों को 32 करोड़ एक लाख 33 हजार 929 रूपये के ऋण माफी प्रमाण-पत्र तथा सम्मान ताम्र-पत्र प्रदान किये। उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक पात्र किसानों को योजना का लाभ दिलाना प्रदेश सरकार की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि किसानों को खेती के लिये पर्याप्त बिजली एवं सिंचाई के लिये उपयुक्त संसाधन उपलब्ध कराये जायेंगे। मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह ने कहा कि प्रदेश में खेती के लिए बिजली, पानी, बीज और खाद की बेहतर व्यवस्थाएँ ही किसानों को समृद्ध और खुशहाल बनाएँगी। उन्होंने कहा कि नगर परिषद, तलेन को 2 करोड़ रूपये का विशेष पैकेज उपलब्ध करवाया गया है, जिससे सभी लंबित कार्य शीघ्र पूर्ण किये जायेंगे। जिले में प्रत्येक विकासखंड की पाँच बड़ी पंचायतों में गौ-शालाओं का निर्माण कराया जायेगा, जिससे गौ-वंश की अच्छी देखभाल हो सके। श्री जयवर्द्धन सिंह ने कहा कि नरसिंहगढ़ तहसील को समृध्द बनाया जायेगा। यहाँ सभी मूलभूत सुविधाएँ उपलब्ध करायी जायेंगी। कार्यक्रम में पूर्व विधायक श्री गिरीश भंडारी उपस्थित थे।  

Dakhal News

Dakhal News 3 March 2019

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि भारतीय समाज की ताकत सशक्त नारी ही है। वह मजबूत समाज की आधार शिला है। मानव कल्याण की भावना, कर्त्तव्य, सृजनशीलता और ममता को सर्वोपरि मानते हुए भारतीय महिलाओं ने माँ के रूप में अपनी सर्वोपरि भूमिका निभायी। राष्ट्र निर्माण और विकास के लिये विशेष दायित्व का निर्वहन रामायण-महाभारत काल से अब तक किया है। राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल, जबलपुर के होम साइंस कॉलेज के प्रेक्षागृह में आयोजित सशक्त महिला-समर्थ भारत कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने कहा कि माता, पत्नी, बहन, बेटी सभी भूमिकाओं में संस्कृति, संस्कार और परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी महिलाओं की है। वह सामाजिक, शैक्षणिक और धार्मिक क्षेत्रों में भी सक्रिय भूमिका निभाती हैं । भावी पीढ़ी के निर्माण में महिलाओं की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है। समर्थ भारत के लिये सशक्त महिला की भागीदारी को सुनिश्चित करने और प्रोत्साहित करने के लिये सरकार उनके आर्थिक स्वावलम्बन, स्वास्थ्य, शैक्षणिक प्रगति, रो राज्यपाल ने कहा कि महिलाएं तभी सशक्त होंगी जब हर परिवार में बेटियों के स्वास्थ्य और उनकी अच्छी शिक्षा तथा स्वावलम्बन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । उन्हें अच्छी शिक्षा के अवसर दिए जाएं। पौष्टिक भोजन मिले तथा समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। राज्यपाल ने बाल विवाह, अंधविश्वास, तंत्र-मंत्र, अशिक्षा आदि कुरीतियों से दूर रहने तथा समाज में जागरूकता के लिए कार्य करने का आव्हान महिलाओं से किया। उन्होंने कहा कि एक नारी यदि एक अच्छी मां बनती है तो वह समाज और देश को सबकुछ दे देती है। राज्यपाल ने आयुष्मान योजना की महिला हितग्राहियों को गोल्डन कार्ड वितरित किए। स्मारिका का विमोचन किया। चिकित्सा एवं समाज कल्याण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने के लिए आयोजक संस्था द्वारा प्रदत्त सेवा रत्न अंलकार सम्मान से नेत्र रोग चिकित्सक डॉ. पवन स्थापक को अंतकृत किया। राज्यपाल ने अमरकंटक प्रवास के दौरान बच्चों को साहित्य-पुस्तकें देने के लिए कहा था। उन्होंने पुस्तकें मंगाकर आज विजय आनंद मरावी को सौंपकर बच्चों में वितरित करने के लिए कहा। कार्यक्रम में स्वामी श्यामदेवाचार्य, सुश्री रेखा दीदी, डॉ राजकुमार आचार्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर महापौर डॉ स्वाति सदानंद गोडबोले, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति एवं गणमान्य नागरिक एवं महिलाएं मौजूद थीं।    

Dakhal News

Dakhal News 3 March 2019

पेज 3

बॉलीवुड के दो सुपर परफॉर्मर वरूण धवन और रणवीर सिंह एक फिल्म में साथ नजर आ सकते हैं। खबर है कि दोनों स्टार प्रोड्यूसर विनय और प्रीति सिंहा की 25 साल पुरानी फिल्म 'अंदाज अपना-अपना' को एक अलग ही वर्जन में पेश करेंगे। रणवीर और वरुण की ये फिल्म ना ही 'अंदाज अपना-अपना' का सीक्वल होगी और ना ही रीमेक, लेकिन फिल्म में सलमान और आमिर के मशहूर किरदारों अमर और प्रेम की भरपूर मस्ती दिखाई देगी। बता दें कि, 90 के दशक में आई सुपरहिट कॉमेडी फिल्म 'अंदाज अपना-अपना' को राज कुमार संतोषी ने डायरेक्ट किया था। फिल्म की कहानी पियूष चांगड़े ने लिखी थी। फिल्म में सलमान और आमिर खान के अलावा रवीना टंडन और करिश्मा कपूर मुख्य किरदार में थीं। इस फिल्म से शक्ति कपूर क्राइम मास्टर गोगो के किरदार में थे, जो कि काफी पसंद किया गया था। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार 'अंदाज अपना-अपना' के 25 साल पूरे होने वाले है। इस खास मौके पर प्रोड्यूसर विनय और प्रीति सिंहा एक धमाकेदार अनाउंसमेंट करने जा रहे हैं। संभावना जताई जा रही है कि दोनों एक खास इवेंट में अगली फिल्म की अनाउंसमेंट करेंगे, जिसमें रणवीर और वरुण 'अमर और प्रेम' की भूमिका में नजर आएंगे। यूं तो हम सभी जानते हैं कि रणवीर सिंह और वरुण धवन ऑफस्क्रीन बहुत अच्छे दोस्त हैं। दोनों का अंदाज काफी मस्तीभरा है, जो लोगों को काफी पसंद आता है। ऐसे में अगर ये दोनों स्टार एक साथ एक ही फिल्म में आ गए तो एंटरटेनमेंट खुब-ब-खुद दोगुना हो ही जाएगा। बता दें कि, साल 1994 में आई फिल्म 'अंदाज अपना-अपना' के रीमेक और सीक्वल की बात चली है तब से फिल्म में लीड किरदार के नाम सामने नहीं आ रहा है। लेकिन, अब माना जा रहा है कि रणवीर सिंह और वरुण धवन ही फिल्म में अमर और प्रेम का किरदार करेंगे। इस फिल्म को भी विनय और प्रीति सिन्हा ही प्रोड्यूस करेंगे।  

Dakhal News

Dakhal News 18 January 2019

  पहले हफ्ते की कमाई में ही 'उरी' ने 70.94 करोड़ रुपए के आंकड़े को पार कर लिया है। इसकी कमाई में खास वो रफ्तार है, जो इसने पहले दिन से कायम की। ऐसी रफ्तार कम बजट की पिछली कुछ हिट फिल्मों ने नहीं दिखाई है। बात कर रहे हैं 'राजी', 'स्त्री', 'सोनू के टीटू की स्वीटी' और 'बधाई हो' की। 'उरी' ने इन फिल्मों के मुकाबले पहले हफ्ते में काफी ज्यादा कमाई की है। 'राजी' ने पहले सप्ताह में 56.59 करोड़ रुपए कमाए थे। 'सोनू के टीटू की स्वीटी' ने सात दिन में 45.94 करोड़ रुपए कमाए थे। राजकुमार राव की 'स्त्री' को टिकट खिड़की पर हफ्तेभर में 60.39 करोड़ रुपए मिले और 'बधाई हो' को 66.10 करोड़ रुपए हासिल हुए थे। बता दें कि इन सभी फिल्मों ने 100 करोड़ से ज्यादा लाइफटाइम कमाई की। 'उरी' को इन सबसे ज्यादा 70 करोड़ रुपए मिले हैं। यह शानदार कमाई है, जो 100 करोड़ तक पहुंचने की राह भी बुलंद करती है। तीन दिन में लागत बाहर कर 'उरी' 2019 की पहली हिट बन गई। तीन दिन तक रोज इसकी कमाई बढ़ती रही और संडे को तो इसने कमाल किया। शुक्रवार के मुकाबले संडे को इसने लगभग दोगुना कमाई की। इस साल रिलीज हुई फिल्मों में किसी ने अपनी लागत भी बाहर नहीं की है। पहले हफ्ते में खास फिल्में नहीं लगी थीं, दूसरे हफ्ते में 'उरी' के साथ 'द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर' रिलीज हुई। अनुपम खेर की फिल्म 'द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर' अभी संघर्ष कर रही है। कम से कम दो हफ्ते यह फिल्म सिनेमाघरों में टिकी रहेगी। 'मणिकर्णिका' के आने के बाद ही इसकी विदाई संभव है। ऐसे में तगड़ी कमाई की उम्मीद है। 'उरी' फिल्म 2016 में भारतीय सेना द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक पर बनी है। रिलीज से पहले ही जबरदस्त तारीफ इस मिल रही थी क्योंकि इसे पत्रकारों को दिखाया गया था और सभी इसकी तारीफ कर रहे थे। अनुपम खेर की 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' को भारत में 1300 स्क्रीन्स मिली थीं और उरी को 2000 से ज्यादा मिली थीं, अब कुछ कम हैं। इस फिल्म में 'देवों के देव महादेव' से खासे लोकप्रिय हुए मोहित रैना भी हैं। यह उनकी पहली फिल्म है। 'उरी' को औसत तीन स्टार की रेटिंग भी मिली है। विक्की कौशल की सिंगल रिलीज की बात की जाए तो यह अभी तक की सबसे बड़ी रिलीज है।  

Dakhal News

Dakhal News 18 January 2019

दखल क्यों

  महिला बाल विकास मंत्री श्रीमती इमरती देवी ने आज सुबह अंकुर स्कूल स्थित आँगनवाड़ी केन्द्र का आकस्मिक निरीक्षण किया। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि सभी आँगनवाड़ियों में बिजली और पानी की व्यवस्थाएँ सुनिश्चित करें। अगर कहीं परेशानी आ रही हो, तो वे स्वयं ऊर्जा मंत्री से इस संबंध में चर्चा करेंगी। श्रीमती इमरती देवी ने कहा कि शासन द्वारा बालिकाओं में स्वच्छता की आदत को बढ़ावा देने की योजना को मूर्तरूप दिया जा रहा है। इस योजना में आँगनवाड़ी से सम्बद्ध 12 वर्ष से अधिक उम्र की बच्चियों को दो वर्ष के लिए नि:शुल्क सेनटरी नेपकिन दिया जायेगा। महिला बाल विकास मंत्री ने आँगनवाड़ी में उपस्थित लगभग 82 बच्चों, दस दात्री महिलाओं तथा 6 गर्भवती महिलाओं से सीधा संवाद किया और मंगल दिवस, मातृ वंदना योजना तथा आँगनवाड़ियों में दिये जा रहे भोजन आदि के संबंध में जानकारी प्राप्त की। श्रीमती इमरती देवी ने बच्चों को चॉकलेट और बिस्कुट भी वितरित किये।  

Dakhal News

Dakhal News 18 January 2019

    अम्बिकापुर में  स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा है कि छत्तीसगढ़ में इसी साल अक्टूबर के महीने से यूनिवर्सल हेल्थ स्कीम का लाभ प्रदेशवासियों को मिलना शुरू हो जाएगा। उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत योजना के तहत सितंबर महीने तक की राशि बीमा कंपनी के पास जमा है। उक्त अवधि तक छत्तीसगढ़ सरकार यूनिवर्सल हेल्थ स्कीम को व्यवस्थित तरीके से लागू करने उप स्वास्थ्य केंद्रों से लेकर बड़े अस्पतालों तक सारी व्यवस्था सुनिश्चित कर लेगी। अंबिकापुर में चर्चा के दौरान स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना में लगभग 500 प्रकार के बीमारियों के इलाज के लिए जो दर निर्धारित की गई है उससे चिकित्सक संतुष्ट नहीं है। यदि वे उक्त योजना के तहत सुविधाएं उपलब्ध नहीं करा रहे हैं तो यह उनका अपना आउटलुक है। राज्य सरकार को जनता के हित का दायरा बढ़ाना है। हमारा मकसद ज्यादा से ज्यादा लोगों को स्वास्थ्य का अधिकार दिलाना है। इसे एक दायरे तक बांध कर नहीं रखना है। आयुष्मान भारत योजना, प्रधानमंत्री तथा मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत जारी स्मार्ट कार्ड चलायमान हैं। सरकार की मंशा यह है कि प्राथमिक स्तर पर ही लोगों को बेहतर सुविधाएं मिलें। यह बात निकलकर सामने आई है कि पचासी से 90 फीसद लोगों को स्वास्थ्य सुविधा के नाम पर साधारण बीमारियों की दवाइयां और डायग्नोस्टिक सुविधा मिलनी चाहिए। इस व्यवस्था को सरकार मितानिन से लेकर उप स्वास्थ्य केंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में ही उपलब्धता सुनिश्चित करने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि शेष गम्भीर मरीजों के लिए बड़े अस्पताल में व्यवस्था होगी। इसमें इलाज के खर्चे की कोई सीमा निर्धारित नहीं रहेगी। जिसे 10 रुपये की दवा की जरूरत होगी वह भी मिलेगी और जिनके इलाज में 20 लाख खर्च होगा उस खर्चे की भरपाई भी सरकार करेगी। टीएस सिंहदेव ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना के तहत बीमा कंपनी को 184 करोड़ से अधिक की राशि देनी पड़ रही है। इसके बावजूद चिकित्सक योजना की सफलता की दर को लेकर असंतुष्ट हैं।    

Dakhal News

Dakhal News 18 January 2019
Video

Page Views

  • Last day : 2161
  • Last 7 days : 12304
  • Last 30 days : 37175
All Rights Reserved © 2019 Dakhal News.