सोनाली का इमोशनल खत बेटे के नाम
सोनाली का इमोशनल खत बेटे के नाम

सोनाली बेंद्रे ने कुछ दिन पहले अपने इंस्टाग्राम और टि्वटर हैंडल पर खुलासा किया था कि वे कैंसर से लड़ रही हैं। अब उन्होंने टि्वटर पर एक पोस्ट में अपने बेटे के साथ वाली तस्वीर पोस्ट की है। इसी के साथ उन्होंने एक भावुक पत्र भी लिखा है।

उन्होंने लिखा है 'लगभग 12 साल 11 महीने 8 दिन पहले जब यह पैदा हुआ था तब से ही मेरे दिल पर इसका राज है। जब बिग 'सी'(कैंसर) ने अपना सिर उठाया तो हमारे सामने बड़ी दिक्कत यह थी उसे कैसे और क्या बताएंगे। हम उसे प्रोटेक्ट तो करना ही चाहते थे लेकिन यह भी चाहते थे कि उसे सभी तथ्य बताना भी बेहद जरूरी है। हम हमेशा ही उससे ईमानदार रहे और इस बार भी एेसा ही रहने का मन बनाया। उसने इस खबर को बेहद मैच्योरली लिया और तुरंत ही हिम्मत और सकारात्मकता को सोर्स बन गया। अब तो कई मौको पर हमें लगता है कि वो मेरा पैरेंट है और मुझे बताता है कि क्या करना चाहिए। अब मुझे लगता है कि बच्चों को इस तरह के हालात से मिलावाना बेहद जरूरी है। आवश्यक है कि हम उनके साथ वक्त बिताएं और उन्हें शामिल करें, बजाय इसके कि उन्हें मामले से दूर रखें। उन्हें दर्द और जीवन की सच्चाइयों से बचाने की कोशिश के बावजूद हमने इसका उलटा किया। रणवीर के समर वेकेशन चल रहे हैं और मैं उसके साथ वक्त बिता रही हूं। उसकी मस्ती और पागलपन मुझमें एक ऊर्जा बनाए रखता है और सकारात्मकता से लबरेज कर देता है। हम वाकई एक-दूसरे की ताकत हैं।'

बता दें कि सोनाली फिलहाल न्यूयॉर्क में अपना इलाज करवा रही हैं। उन्होंने कुछ दिन पहले लिखा था 'पसंदीदा रचनाकार इजाबेल अलांदे के शब्दों में 'हम वाकई नहीं जानते हैं कि हम कितने मजबूत हैं, जब तक कि हमें अपनी छुपी हुई ताकत को बाहर लाने के लिए मजबूर नहीं कर दिया जाता। जिंदा रहने की क्षमता के मामले में वाकई मनुष्य अद्भुत है।' पिछले दिनों जो प्यार मुझे मिला उससे अभिभूत हूं। मैं खासतौर पर उन लोगों की शुक्रगुजार हूं जो मुझे कैंसर से लड़ने के किस्से भेज रहे हैं, फिर वो आपके हो या किसी परिवार वाले के। आपकी आपबीतियों से मुझे जबरदस्त मजबूती और हिम्मत मिल रही है, यह भी जानकारी मिल रही है कि मैं ही अकेली नहीं हूं। हर दिन एक नया चैलेंज होता है और एक नई जीत होती है। फिलहाल मैं सिर्फ एक ही कोशिश कर रही हूं और वो है लगातार सकारात्मक नजरिया बनाए रखने की। मेरी इस यात्रा को आपसे शेयर करना भी इसी का हिस्सा है। मैं केवल यह उम्मीद कर सकती हूं कि सब कुछ हारा नहीं है, यह आपको याद दिलाता रहेगा कि कहीं तो कोई यह समझेगा कि आप किस दौर से गुजर रहे हैं। '

 

Dakhal News 20 July 2018

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 651
  • Last 7 days : 4895
  • Last 30 days : 41836
All Rights Reserved © 2018 Dakhal News.