युद्धग्रस्त इलाकों में यौन हिंसा से एंजेलिना परेशान
एंजेलिना जोली

लॉस एंजिलिस में बच्चों और महिलाओं के हितों की बात करने वाली मशहूर हॉलीवुड सुपरस्टार और संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी मानवाधिकार की गुडविल एंबैसेडर एंजेलिना जोली ने नाटो (नॉर्थ अटलांटिक ट्रिटी ऑर्गनाइजेशन) मुख्यालय का दौरा कर युद्धग्रस्त इलाकों में यौन हिंसा पर चिंता जताई है।

नाटो के प्रतिनिधियों और संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी के साथ आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस की बैठक में जोली ने कहा, युद्ध प्रभावित इलाकों में महिलाओं और बच्चो के साथ हो रहे यौन हिंसा के खिलाफ लड़ाई पर ध्यान केंद्रित करना होगा।

एंजेलिना ने चिंता जताते हुए कहा कि संकटग्रस्त इलाकों में महिलाओं और बच्चों के साथ हिंसा खासकर यौन हिंसा काफी बढ़ रही है। इन क्षेत्रों में रेप एक तरह से सैन्य और राजनीतिक लक्ष्य को प्राप्त करने का हथियार बन गया है। ऐसे हालात युवक-युवतियों और महिलाओं- लड़कियों को बुरी तरह से प्रभावित कर रहे हैं।

जोली ने उम्मीद जताई कि संयुक्त राष्ट्र की तरफ से उनके लिए अच्छे प्रशिक्षण, रिपोर्टिंग, मॉनीटरिंग और जागरुकता के लिए अभियान चलाया जाएगा। इससे संकटग्रस्त इलाकों में समस्याओं का सामना कर रहे महिलाओं और बच्चों के लिए बेहतर रास्ता तैयार होगा।

नाटो सेक्रेटरी जनरल जेन्स स्टोलटेनबर्ग ने कहा कि जोली महिलाओं को सशक्त बनाने और यौन हिंसा के खिलाफ लड़ाई के लिए हमेशा से एक मजबूत आवाज बन कर उभरी हैं। वे अपने महान नेतृत्व क्षमता के कारण एकदम सही प्रवक्ता हैं।

 

Dakhal News 1 February 2018

Comments

Be First To Comment....
Video

Page Views

  • Last day : 2444
  • Last 7 days : 15894
  • Last 30 days : 60979
All Rights Reserved © 2018 Dakhal News.